Since: 23-09-2009

मध्यप्रदेश की खबरें

छत्तीसगढ़ की खबरें

मध्यप्रदेश की खबरें

    मुख्यमंत्री  चौहान से मिले मेधावी छात्र-छात्राएँ        मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मेधावी बच्चों की शिक्षा में धन की बाधा को समाप्त करने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अधिक फीस होने के कारण किसी भी जाति अथवा समाज का मेधावी बच्चा शिक्षा से वंचित नहीं रहे, ऐसे प्रयास किये जा रहे हैं। श्री चौहान आज विधानसभा में छतरपुर जिले के बिजावर विकासखण्ड के मेधावी छात्र-छात्राओं से चर्चा कर रहे थे। इस अवसर पर विधायक श्री पुष्पेन्द्रनाथ पाठक भी उपस्थित थे।   मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि शिक्षण संस्थानों में शिक्षा के लिये अधिक फीस की आवश्यकता होती है। परिवार की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं होने से कई मेधावी छात्र फीस नहीं दे पाते। अब धन के अभाव में मेधावी बच्चे शिक्षा से वंचित नहीं हो, इसके लिये उनकी फीस सरकार भरे और नौकरी मिलने के बाद वे आसानी से उसे लौटा सकें, ऐसी योजना का निर्माण किया जायेगा।    उन्होंने कहा कि सफलता के लिये निरंतर प्रयास और संकल्प की आवश्यकता है। उन्होंने विवेकानंद के विचारों का उल्लेख किया। बताया कि व्यक्ति अनंत शक्तियों का भंडार है। वह जो चाहे कर सकता है। श्री चौहान ने कहा कि बच्चे अपनी प्रतिभा का अधिक से अधिक उपयोग करें। ऐसा कार्य करने का प्रयास करें, जिससे देश-प्रदेश और दुनिया का भला हो। उन्होंने बच्चों को उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएँ दी।   इस अवसर पर बिजावर के शासकीय उत्कृष्टता विद्यालय, शासकीय कन्या विद्यालय और शासकीय मॉडल स्कूल के 80 प्रतिशत से अधिक अंक पाने वाले 50 से अधिक मेधावी छात्र-छात्राएँ उपस्थित थे।

Madhya Bharat Madhya Bharat 28 July 2016

मध्यप्रदेश की खबरें

    मुख्यमंत्री चौहान ने आनंद विभाग की बैठक ली         मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने निर्देश दिये हैं कि आनंद विभाग  द्वारा अगले माह आयोजित की जाने वाली कार्यशाला में इस क्षेत्र में काम करने वाले संत और मनीषियों को आमंत्रित कर उनका मार्गदर्शन लिया जाये। मुख्यमंत्री  चौहान ने यह निर्देश आज यहाँ आनंद विभाग की बैठक में दिये। बैठक में बताया गया कि आनंद विभाग की गतिविधियाँ राज्य आनंद संस्थान के अंतर्गत संचालित की जायेगी।   मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि आनंद विभाग की गतिविधियों के अंतर्गत शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार के साथ-साथ बुनियादी जरूरतों को भी शामिल किया जाये।  विभाग के दृष्टि पत्र में आनंद की अवधारणा से जुड़े दर्शन, गतिविधियों और सूचकांक शामिल किये जाये। यह विभाग हताशा और निराशा को खत्म करने के लिये वातावरण बनाने का काम करेगा। 'माँ तुझे प्रणाम' और 'मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन' जैसी योजनाओं में आनंद के लिये और क्या बदलाव किया जा सकता है, इस पर विचार करे। आनंद के प्रकटीकरण के लिये सांस्कृतिक, साहित्यिक और खेल-कूद से जुड़ी गतिविधियों की योजना बनाये। इसके लिये पाठ्यक्रम में सकारात्मक बदलाव किये जा सकते हैं। योग के संबंध में विभिन्न विभाग द्वारा संचालित गतिविधियों में एकरूपता रहे।   बैठक में बताया गया कि आनंद की अवधारणा के संबंध में विभिन्न विभाग को प्रशिक्षित किया जायेगा। योग के लिये स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा प्रदेश के सात संभाग में योग प्रशिक्षण केंद्र बनाये जायेंगे। खेल विभाग द्वारा विकास खण्ड स्तर पर योग एवं खेल प्रशिक्षण केंद्र स्थापित करने की योजना बनायी गयी है। उच्च शिक्षा विभाग योग और खेल से जुड़े पाठ्यक्रम शुरू करेगा। बैठक में नर्मदा नदी के किनारे आयुर्वेद, योग और आध्यात्म के लिये वेलनेस सेंटरों की श्रंखला शुरू करने का सुझाव दिया गया।    बैठक में मुख्य सचिव  अन्टोनी डिसा, अपर मुख्य सचिव स्कूल शिक्षा  एस. आर. मोहंती, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव  इकबाल सिंह बैंस, प्रमुख सचिव संस्कृति  मनोज श्रीवास्तव, प्रमुख सचिव उच्च ‍‍शिक्षा आशीष उपाध्याय, सचिव खेल एवं युवा कल्याण  सचिन सिन्हा और संचालक खेल एवं युवा कल्याण  उपेंद्र जैन भी उपस्थित थे।  

Madhya Bharat Madhya Bharat 25 July 2016

छतीसगढ़ की खबरें

      बीजापुर में  नक्सलियों के शहीद सप्ताह के पहले दिन ही यात्री बसों के पहिये थम गए। संचालकों ने बसों को बीजपुर बस स्टैंड पर ही रोक दिया है। आवापल्ली, बासागुड़ा, मद्देड़, पटनम और कूटरू फरसेगढ़ की ओर चलने वाली बसें थम गई है। इसी के साथ दंतेवाड़ा में भी बसों का परिवहन बंद है।   28 जुलाई से 3 अगस्त तक माओवादियों ने शहीदी सप्ताह मनाने का ऐलान किया है। विभिन्न मुठभेडों अथवा अन्य कारणों से मारे गए अपने नक्सल साथियों की याद में शहीद सप्ताह का वे आयोजन करते हैं। किसी भी अप्रिय घटना से निपटने जिले के तमाम थाने में एलर्ट जारी है। जंगल में माओवादी ठिकाने खंगालने सुरक्षा जवानों ने भी सघन सर्चिग के जरिये नक्सल विरोधी मुहिम छेड़ रखी है।   सप्ताह शुरू होने के 10 दिन पहले ही जिले के मर्दापाल क्षेत्र में पुलिस गुप्तचर के सगे भाई की हत्या कर माओवादी अपने मंसूबे जता चुके हैं। यह बात भी सामने आई थी कि काली वर्दी वाले लगभग तीन सौ माओवादी इलाके में मौजूद हैं। माओवादियों का मिलिट्री दलम जिले में सक्रिय है जो बडी घटना के फिराक में है।  

Madhya Bharat Madhya Bharat 28 July 2016

छतीसगढ़ की खबरें

    कोरबा के  कटघोरा वनमानदल क्षेत्र में दुलर्भ हनी बीयर का बच्चा मिला है। कुछ ग्रामीणों को जंगल के अंदर यह बच्चा मिला था, वह उसे अपने साथ घर ले आए और उसकी देखभाल की। गांव में हनी बीयर का बच्चा होने की सूचना मिलने के बाद वन विभाग का दल वहां पहुंचा। स्थानीय लोग इसे देधा बैली कहते हैं। वन विभाग इसे उचित देखभाल के लिए बिलासपुर के कानन पेंडारी जू भेजने की तैयारी कर रहा है।   जानकारी के मुताबिक ग्राम पंचायत मल्दा अंतर्गत जंगल में पहाड़ी के नीचे मशरूम (पुटु) निकालने के लिए कुछ ग्रामीण गए हुए थे। तभी वहां ये दुर्लभ जानवर दिखा जोकि 3 से 4 कुत्तों से घिरा हुआ था। ग्रामीणों ने उसे कुत्तों से बचाया और उसकी मां की तलाश की। काफी देर तक जब उसकी मां को खोज नहीं पाए तब उन्होंने फैसला किया कि इसे घर ले जाएंगे।   इसकी सूचना उन्होंने वन विभाग को भी दे दी, एक घंटे के अंदर में ही वन विभाग से वन रक्षक उमेंद राम मराठा और उनकी टीम ग्राम मल्दा पहुंची और इसे तत्काल पशु चिकित्सक आर सी साहू के पास कोरबा ले आए उन्होंने इसका इलाज किया और बताया की यह मात्र 5 दिन का है। इसे अंग्रेजी में हनी बीयर कहते हैं जोकि नेवले के प्रजाति का है।   इलाज कराने के बाद इसे लेकर पुनः उसी जगह पहुंचे जहां से इसे उठाया गया था मगर उसकी मां का पता नहीं लग पाया। अब हनी बीयर के बच्चे को उचित देखभाल के लिए बिलासपुर के कानन पेंडारी जू भेजने की तैयारी की जा रही है।     Attachments area          

Madhya Bharat Madhya Bharat 25 July 2016

Video
Advertisement
All Rights Reserved ©2016 MadhyaBharat News.