Since: 23-09-2009

 Latest News :
पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव हिंसा में 6 की मौत .   लोकतंत्र में हिंसा के लिए कोई जगह नहीं : मोदी.   सार्वजनिक स्थानों पर न पढ़ी जाए नमाज :खटटर .   योगी ने अस्पताल में की तूफान पीड़ितों से मुलाकात.   कांग्रेस खेलती है सत्ता का खेल:मोदी .   फ्रीडम फाइटर केयूर भूषण का देहावसान.   एमपी बोर्ड 10वीं और 12वीं के रिजल्ट हुए जारी.   बैरागी को दी गई अंतिम विदाई.   परिवार में बेटा-बेटी के साथ एक-समान व्यवहार होना चाहिये:राज्यपाल .   राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग के गठन के प्रयास किये जायेंगे .   उच्च शिक्षा के लिये बच्चों का मार्गदर्शन करे कोली समाज :चौहान.   MP में हर आदिवासी को दिया जायेगा पक्का मकान: चौहान.   नक्सलियों ने रेलमार्ग पर डाले पेड़ ,फोर्स पर की फायरिंग.   20 हजार गांवों में पहुंचेंगे जोगी के कार्यकर्ता.   राजनैतिक रंग ले रहा है पत्थलगड़ी .   नक्सलियों ने गढ़चिरौली का बदला लेने की दी धमकी.   बीजापुर में मुठभेड़, आठ नक्सलियों के शव मिले .   मारे गए 16 नक्सलियों में से 10 की पहचान हुई.  

देश की खबरें

मध्यप्रदेश की खबरें

छत्तीसगढ़ की खबरें

देश की खबरें

पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनाव के लिए मतदान जारी है। सुबह 7 बजे से शुरू हुए मतदान के बाद 11 बजे तक 26.28 प्रतिशत वोट पड़े थे। इस बीच कड़े सुरक्षा इंतजामों के बावजूद हुई हिंसा में अब तक 6 लोगों की मौत हो गई है वहीं 50 से ज्यादा घायल हो गए हैं। जानकारी के अनुसार दक्षिण 24 परगना में टीएमसी कार्यकर्ता की हत्या कर दी गई वहीं वाम नेता की पत्नी की हत्या कर दी गई। इसके अलावा अलीपुरद्वार में कई लोग घायल हुए हैं जबकि उत्तर 25 परगना में एक क्रूड बम धमाके में 20 लोग घायल हुए हैं। इससे पहले राज्य के कूच बिहार में हुई झड़प में 20 से ज्यादा लोग घायल हो गए वहीं कई वाहनों को नुकसान पहुंचा है। स्थानीय लोगों के अनुसार वो लोग मतदान करने के लिए गए थे लेकिन इस बीच टीएमसी के समर्थकों ने उ न पर हमला कर दिया। सभी घायलों को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया है। इसके अलावा मुर्शिदाबाद में बूथ कैप्चरिंग की घटना सामने आई है जबकि पनीहाटी में एक भाजपा कार्यकर्ता को चाकू मारकर घायल कर दिया गया है। राज्य चुनाव में हिंसा को लेकर भाजपा ने टीएमसी पर निशाना साधा है। भाजपा नेता सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि यह बेहद निंदनीय है। घटनाएं बताती हैं कि पश्चिम बंगाल में टीएमसी के राज में राजनीतिक हिंसा ने पूरे राज्य को चपेट में ले लिया है और यह लोकतंत्र के लिए खतरे की घंटी है। बता दें कि चुनाव के पहले राज्य में हुई हिंसा को देखते हुए सभी बूथों पर सशस्त्र बलों की तैनाती की गई है। अतिसंवेदनशील व संवेदनशील बूथों पर विशेष नजर रखी जा रही है। इस बार पंचायत चुनाव में सत्ताधारी टीएमसी और विपक्षी भाजपा के बीच जोरदार लड़ाई देखने को मिल रही है। अगले साल होने आम चुनावों से पहले के प्रमुख चुनाव होने के कारण इस चुनाव की अहमियत काफी बढ़ गई है। राजनीतिक दल इसे लोकसभा चुनावों से पहले अपनी ताकत के परीक्षण के तौर पर देख रहे हैं। चुनावों की गणना 17 मई को होगी। अगर किसी कारणवश जरूरत पड़ी तो 16 मई को पुनर्मतदान हो सकते हैं। पश्चिम बंगाल राज्य निर्वाचन आयोग के मुताबिक, 3,358 ग्राम पंचायतों की 48,650 में से 16,814 सीटों पर उम्मीदवार निर्विरोध निर्वाचित हुए हैं। वहीं 31 पंचायत समितियों की 9,217 में से 3,059 सीटों पर उम्मीदवारों को निर्विरोध चुना गया है। इसी तरह 20 जिला परिषदों की 825 में से 203 सीटों पर मुकाबला निर्विरोध रहा है। चुनाव के लिए नामांकन पत्र दाखिल करने के दौरान हुई हिंसा को लेकर राज्य में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस, भाजपा, और वाम मोर्चा के नेताओं ने एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाए। विपक्ष का आरोप है कि सत्तारूढ़ टीएमसी ने नामांकन प्रक्रिया के दौरान हिंसा की, वहीं तृणमूल ने इन आरोपों को खारिज करते हुए कहा था कि विपक्ष का कोई जनाधार नहीं है और वह चुनाव से बचने का प्रयास कर रहे थे। तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों पर हिंसा का आरोप लगाते हुए विपक्षी पार्टियों हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में भी गुहार लगाई थी। वहीं नामांकन दाखिल करने से रोके जाने के विपक्ष के आरोपों के चलते हाईकोर्ट ने उम्मीदवारों को वाट्सऐप और ईमेल के जरिये भी नामांकन भरने की इजाजत दी थी।

Madhya Bharat Madhya Bharat 14 May 2018

देश की खबरें

  यूपी में आए आंधी-तूफान से हुई तबाही और मौतों के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को अस्पताल पहुंचकर पीड़ितों से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने अस्पताल में सुविधाओं का भी जायजा लिया। इसके बाद वो तूफान प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण भी करेंगे। खेरागढ़ के बुरहरा में मंच से सीएम योगी आदित्यनाथ ने की राहत की घोषणा। आपदा प्रभावित खेरागढ़ क्षेत्र में नही होगी राजस्व और बिजली बिल की वसूली। तूफान में मकान के साथ जिन परिवारों का सामान भी नष्ट हो गया है, उनको बर्तन और राशन प्रशासन की ओर से दिया जाएगा। जिन परिवारों के पास कच्चा मकान था वह भी तूफान में ढह गया, उनको तत्काल एक एक आवास दिया जाएगा। सीएम ने मंच से संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि सरकार मृतकों को वापस तो नही ला सकती, लेकिन उनके परिजनों की मदद करके उनका दुख बांट सकती है। हम इसीलिए यहां आये है। बता दें कि राज्य में आंधी तूफान से मची तबाही के बाद कर्नाटक में प्रचार के लिए गए योगी ने दौरा बीच में छोड़कर लौट आए हैं। वैसे तो उन्हें शनिवार को वापस लौटना था लेकिन शुक्रवार को ही वापस लौट आए। रात में वह आगरा पहुंच गए। राज्य सरकार के प्रवक्ता ने शुक्रवार को बताया कि मुख्यमंत्री आज आगरा के आपदा प्रभावित क्षेत्रों का भ्रमण करेंगे। वह जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ बैठक कर राहत और पुनर्वास कार्यों की समीक्षा भी करेंगे। आगरा के बाद मुख्यमंत्री कानपुर नगर का भी दौरा करेंगे। कानपुर नगर के आपदा प्रभावित क्षेत्रों के भ्रमण के बाद वह वहां भी अधिकारियों के साथ राहत और पुनर्वास की समीक्षा करेंगे। आपदा प्रभावित जिलों के अधिकारियों को राहत कार्य प्रभावी रूप से संचालित करने, घायलों का समुचित इलाज सुनिश्चित कराने तथा पीड़ितों को हर संभव मदद उपलब्ध कराने के निर्देश पूर्व में दिए जा चुके हैं।  

Madhya Bharat Madhya Bharat 5 May 2018

मध्यप्रदेश की खबरें

  मध्यप्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिमं) द्वारा मप्र बोर्ड 10वीं और 12वीं परीक्षा 2018 के परिणाम सीएम शिवराज सिंह चौहान ने जारी कर दिए। इसके बाद सीएम मेरिट में आए विद्यार्थियों को सम्मानित किया।हाईस्कूल का रिजल्ट 66.54 प्रतिशत रहा, जो पिछले साल की तुलना में 16.68 प्रतिशत ज्यादा है। हायर सेकेंडरी का रिजल्ट 68.07 प्रतिशत रहा। 10वी में पहले स्थान पर दो विद्यार्थी रहे, शाजापुर के हर्षवर्धन परमार और विदिशा की अनामिका साध ने पहला स्थान प्राप्त किया। 10वीं के विद्यार्थी अपने नतीजे mp10.jagranjosh.com और 12वीं के विद्यार्थी mp12.jagranjosh.com पर देख सकते हैं। इसके अलावा छात्र-छात्राओं को www.mpbse.nic.in, www.mpresults.nic.in, mpbse.mponline.gov.in पर भी नतीजे देख सकते हैं। इस वर्ष करीब 20 लाख छात्र-छात्राओं ने 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं दी थीं। कक्षा 12वीं के 7, 69, 000 विद्यार्थी और 10वीं के 11, 48,00 विद्यार्थी परीक्षा में बैठे थे। एमपी बोर्ड 12वीं की परीक्षाएं 1 मार्च से 3 अप्रैल तक चली थीं। एमपी बोर्ड 10वीं की परीक्षाएं 5 मार्च से 31 मार्च तक हुई थीं।  

Madhya Bharat Madhya Bharat 14 May 2018

मध्यप्रदेश की खबरें

मुख्यमंत्री ने सागर में हुए पिछड़ा वर्ग महाकुंभ में 15 विभूतियों को किया सम्मानित मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि पिछड़ा वर्ग के लिये राज्य सरकार द्वारा केन्द्र सरकार से राष्ट्रीय आयोग गठित करने और उसे संवैधानिक दर्जा दिलाने का अनुरोध किया जायेगा। पिछड़ा वर्ग के युवाओं में प्रतिभा, क्षमता और योग्यता की कोई कमी नहीं है, इन्हें शिक्षा एवं रोजगार के क्षेत्र में सभी सुविधाएँ मुहैया करवाई जायेंगी। मुख्यमंत्री ने आज सागर के समीप ग्राम बामौरा में पिछड़ा वर्ग महाकुंभ को संबोधित करते हुए यह जानकारी दी। मुख्यमंत्री ने पिछड़ा वर्ग की 15 विभूतियों को म.प्र. रामजी महाजन पिछड़ा वर्ग सेवा राज्य पुरस्कार-2015 प्रदान किये। साथ ही वर्ष 2017-18 म.प्र. लोक सेवा आयोग द्वारा विभिन्न सेवाओं के लिये चयनित पिछड़ा वर्ग के उम्मीदवारों को सम्मानित किया। श्री चौहान ने शासन की विभिन्न योजनाओं के पात्र हितग्राहियों को हितलाभ भी वितरित किये। मुख्यमंत्री ने की पिछड़ा वर्ग कल्याण के लिये महत्वपूर्ण घोषणाएँ अन्य पिछड़ा वर्ग के विद्यार्थियों के लिये इसी शिक्षा सत्र से विकासखण्ड स्तर पर छात्रावास खोले जायेंगे। छात्रावास के प्रारंभ होने तक किराये के भवन में छात्रावास संचालित किये जायेंगे। ·छात्रावास में विद्यार्थी को प्रवेश नहीं मिलने की स्थिति में अगर 2 विद्यार्थी मिलकर किराये के मकान में पढ़ाई करेंगे, तो मकान किराया सरकार देगी।  पिछड़ा वर्ग छात्रवृत्ति के लिये अभिभावक की वार्षिक आय सीमा 75 हजार रूपये को बढ़ाकर 3 लाख रूपये सालाना किया जायेगा। अब एक वर्ष में अन्य पिछड़ा वर्ग के 50 विद्यार्थियों का विदेशी विश्वविद्यालय में चयन होने पर उनकी फीस राज्य सरकार भरेगी। अभी तक विद्यार्थियों की यह संख्या मात्र 10 तक सीमित थी।  पिछड़ा वर्ग के विद्यार्थियों को प्रतिस्पर्धात्मक परीक्षाओं के लिये कोचिंग दिलवायी जायेगी।  पिछड़ा वर्ग के विद्यार्थियों से अब कांऊसिलिंग के समय आय प्रमाण-पत्र नहीं माँगा जायेगा। केवल फीस भरते समय आय प्रमाण-पत्र की जरूरत होगी। ·पिछड़े वर्ग के विद्यार्थियों को दिया जा रहा अनुरक्षण भत्ता दोगुना किया जायेगा। यह वृद्धि मैट्रिक के बाद उच्च शिक्षा संस्थानों में चयन होने तक देय होगी।  कक्षा 12वीं में 70 प्रतिशत अंक लाने वाले अन्य पिछड़ा वर्ग के विद्याथियों को मुख्यमंत्री मेधावी छात्र प्रोत्साहन योजना का लाभ दिया जायेगा। ऐसे विद्यार्थी का चयन किसी उच्च शिक्षा संस्थान में होता है, तो उसकी फीस सरकार देगी।  हर वर्ष पिछड़ा वर्ग के 2 लाख हितग्राहियों को शासन की विभिन्न स्व-रोजगार योजनाओं का लाभ दिया जायेगा।  नरयावली में महाविद्यालय और जरूआखेड़ा में औद्योगिक प्रशिक्षण संस्था (आईटीआई) खोले जायेंगे। अन्य पिछड़ा वर्ग को 5973 करोड़ की आर्थिक सहायता/अनुदान मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार ने अन्य पिछड़ा वर्ग के विकास के लिये 5973 करोड़ रूपये की राशि आर्थिक सहायता और अनुदान के रूप में खर्च की है। राज्य सरकार की यह कोशिश निरंतर जारी रहेगी। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री पिछड़ा वर्ग स्व-रोजगार योजना में पिछले वित्त वर्ष में 111 करोड़ रूपये खर्च कर युवाओं को स्व-रोजगार से लगाया गया है। श्री चौहान ने प्रधानमंत्री फसल बीमा, मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि, समर्थन मूल्य पर अनाज खरीदी, स्व-रोजगार योजनाओं और मुख्यमंत्री असंगठित श्रमिक कल्याण योजना की जानकारी देते हुए अपील की कि 7 मई को अपनी ग्राम पंचायत में आयोजित विशेष ग्राम सभाओं में जरूर शामिल हों। उन्होंने श्रमिक बंधुओं से आग्रह किया कि विशेष ग्राम सभाओं में जाकर अपने पंजीयन का सत्यापन करायें और मुख्यमंत्री असंगठित श्रमिक कल्याण योजना का भरपूर लाभ उठायें। मुख्यमंत्री द्वारा सम्मानित विभूतियाँ मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा महाकुंभ में म.प्र. रामजी महाजन पिछड़ा वर्ग सेवा राज्य पुरस्कार-2015 से श्रीमती कान्ति पटेल, श्रीमती आशा साहू, श्रीमती माया विश्वकर्मा, श्रीमती अलका सैनी, श्रीमती बबीता परमार, श्रीमती यमुना कछावा, श्रीमती प्रीति सेन, सुश्री राजकुमारी कुसुम महदेले (जबलपुर), श्री सूरज सिंह मारण, डॉ जे.के. यादव, श्री राजेश दोडके, डॉ. भगवान भाई पाटीदार, श्री काशीराम यादव और श्री महेन्द्र कटियार को सम्मानित किया। इन विभूतियों को पुरस्कार स्वरूप एक-एक लाख रूपये, स्मृति चिन्ह, प्रशस्ति-पत्र, शॉल-श्रीफल भेंटकर सम्मानित किया गया। स्व. श्री नारायण सिंह डागोर का मरणोपरांत पुरस्कार उनकी धर्मपत्नी श्रीमती चन्द्रादेवी ने प्राप्त किया। पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्रीमती ललिता यादव ने समारोह की अध्यक्षता की। सांसद श्री लक्ष्मीनारायण यादव, पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री गोपाल भार्गव, गृह एवं परिवहन मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह, महापौर श्री अभय दर्रे, बुन्देलखंड विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष डा. रामकृष्ण कुसमरिया, विधायक श्री शैलेन्द्र जैन, श्रीमती पारूल साहू, श्री हरवंश राठौर, श्री प्रदीप लारिया, श्री महेश राय, श्री हर्ष यादव, म.प्र. राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग के अध्यक्ष श्री राधेलाल बघेल, पिछड़ा वर्ग तथा वित्त विकास निगम के अध्यक्ष श्री प्रदीप पटेल एवं अन्य स्थानीय जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।

Madhya Bharat Madhya Bharat 7 May 2018

छतीसगढ़ की खबरें

  छ्त्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में नक्सलियों ने सोमवार को किरंदुल-विशाखापट्नम रेलमार्ग को बाधित कर दिया है, जिस कारण रेल यातायात प्रभावित रहा। मिली जानकारी के मुताबिक दंतेवाड़ा के कूपेर इलाके में नक्सलियों ने पेड़ों को काटकर रेल पटरी पर गिरा दिया। साथ ही ओएचई केबल को भी क्षतिग्रस्त कर दिया। ताजा जानकारी के अनुसार इस घटना में 100 से ज्यादा नक्सली शामिल थे। ट्रेन के इंजन चालक और गार्ड का वॉकी-टॉकी भी नक्सली साथ लेकर चले गए, जिससे इस घटना की जानकारी समय पर नहीं मिल सकी कूपेर रेल मार्ग बहाल करने जब फोर्स के साथ रेल कर्मचारी पहुंचे तो नक्सलियों ने उनपर फायरिंग शुरू कर दी और बम ब्लास्ट भी किया। पुलिस ने दो बम भी बरामद कर लिए हैं। इसके अलावा नक्सलियों ने एक पोकलेन मशीन को भी फूंक दिया है।  

Madhya Bharat Madhya Bharat 14 May 2018

छतीसगढ़ की खबरें

  नक्सलियों ने गढ़चिरौली में हाल ही मे मारे गए 40 साथियों की मौत का बदला पुलिस से लेने ने धमकी दी है।जानकारी के अनुसार हाल ही में पेरमिल के जंगल में मुठभेड़ हुई थी, वहीं पर नक्सलियों ने बैनर लगाकर पुलिस को चेतावनी दी। फिलहाल पुलिस ने सर्चिंग अभियान तेज कर दिया है। गौरतलब है कि हाल ही में छत्तीसगढ़ की सीमा से लगे हुए महाराष्ट्र के गढ़चिरौली ज़िले में पुलिस ने एक मुठभेड़ में 40 माओवादियों के मारे जाने का दावा किया था। मुठभेड़ के बाद कई नक्सलियों के शब बाद में इंद्रावती नदी में तैरते हुए मिले थे।  

Madhya Bharat Madhya Bharat 3 May 2018

Video

Page Views

  • Last day : 2842
  • Last 7 days : 18353
  • Last 30 days : 71082
Advertisement
Advertisement
Advertisement
All Rights Reserved ©2018 MadhyaBharat News.