Since: 23-09-2009

 Latest News :
राघव दुबे ने पाया 10वां स्थान.   अनुशासन में रहकर काम करेंगी साध्वी पीएम मोदी को बताया किसान हितैषी.   दो भारतीयों गेंदबाजों को पीछे छोड़ा, मलिंगा टॉप 5 गेंदबाजों में शामिल.   मानसून का इंतजार केरल में देरी .   दिल्ली की महिलाओं को केजरीवाल का तोहफा .   कई शहरों में तेज आंधी, बारिश के साथ ओले गिरे .   व्यापम में आठ मामलों की जांच फिर से .   रमजान पर निकाली गई सबसे छोटी कुरान .   मंत्री बोले फॉल्ट के कारण गुल हो रही है बिजली .   कम्प्यूटर बाबा बोले नर्मदा पर राजनीति न हो .   समय से पहले प्रहलाद पटेल पूरा करेंगे हर काम.   रेत खदान पर छापा, 50 डंपर, दो पोकलेन और एक जेसीबी जब्त.   बुजुर्ग की नसीहत से नाराज ग्रामीण ने कर दी हत्या.   बिजली कटौती के बाद गिरी इंजीनियरों पर गाज.   प्रेमी की लाश मिली नाले में , सामने हैं प्रेमिका का घर .   मुख्य सचिव को रोकना , पड़ा थानेदार को महंगा .   मौसम ने ली करवट, बिलासपुर में बारिश.   सरकारी कर्मचारियों का होगा मुफ्त इलाज.  

देश की खबरें

  मध्यप्रदेश के तीन टॉपर्स की लिस्ट में,     मध्यप्रदेश के तीन विद्यार्थी टॉपर्स की लिस्ट में, राघव दुबे ने पाया 10वां स्थान  बेस्ट 20 फीमेल कैंडिडेट की लिस्ट में मध्यप्रदेश की कीर्ति अग्रवाल ने दूसरा स्थान पाया है। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने बुधवार को नीट 2019 का रिजल्ट घोषित कर दिया। रिजल्ट की मेरिट लिस्ट में मध्यप्रदेश के राघव दुबे ने दसवां स्थान पाया है। इसी तरह टॉप 50 की लिस्ट में प्रदेश की कीर्ति अग्रवाल ने 15वां नंबर और अभिषेक राजपूत ने 35वां स्थान मिला है। मध्यप्रदेश से तीन विद्यार्थियों ने इस नीट में अपना परचम लहरा दिया है। वहीं बेस्ट 20 फीमेल कैंडिडेट की लिस्ट में मध्यप्रदेश की कीर्ति अग्रवाल ने दूसरा स्थान पाया है।2019 में मध्यप्रदेश से 53391 विद्यार्थियों ने परीक्षा दी थी, इसमें से 26773 ने क्वालिफाई किया। नीट 2018 में मध्यप्रदेश से 50.94 प्रतिशत परीक्षार्थी क्वालिफाई हुए थे, लेकिन इस बार 2019 में 50.15 विद्यार्थी ही क्वालिफाई हो पाए।

Madhya Bharat Madhya Bharat 5 June 2019

देश की खबरें

    मानसून के लिए अभी और इंतज़ार करना पड़ेगा ।  4 जून तक मानसून केरल में दस्त देने वाला मानसून अब  7 जून तक केरल में दस्तक दे सकता है। वेदर फोरकास्टे एजेंसी स्काेयमेट के अनुसार दक्षिण-पश्चिम मानसून के लिए इंतजार बढ़ गया है। मानसून की सुस्त  चाल को देखते हुए अनुमान लगाया जा रहा हैं की  देश को मानसून का और इंतजार करना होगा |  'स्काईमेट वेदर' के मुताबिक पिछले 65 सालो में देश में दूसरी बार मानसून परइ मानसून कमजोर पड़ा हैं | स्काईमेट के अनुसार, मौसम विभाग की सभी चार डिवीजनों उत्तर-पश्चिम भारत, मध्य भारत, पूर्व-पूर्वोत्तर भारत और दक्षिणी प्रायद्वीप में क्रमशः 30, 18, 14 और 47 फीसद कम बारिश रिकॉर्ड की गई है।  स्काईमेट के मुताबिक, केरल में एक जून को दस्तक देने वाले दक्षिण-पश्चिम मानसून के 3-4 दिन देर से आने की संभावना थी, लेकिन अब इसके सात जून तक आने की संभावना है। देश में इस साल मानसून के औसत रहने के संभावना जताई गई हैं। हालांकि इससे एशिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था के कृषि उत्पादन और आर्थिक विकास दर पर इसका कोई विपरीत प्रभाव नहीं पड़ेगा। भारतीय मौसम विभाग ने कहा था कि मानसूनी वर्षा का लंबी अवधि का औसत (एलपीए) 96 फीसद रहने की उम्मीद है। सरकारी मौसम विभाग का कहना है कि मानसून सामान्य या औसत रहेगा जोकि 96 फीसद और 104 फीसद है। जून से सितंबर की अवधि में दीर्घावधि औसत 887 मिलीमीटर वर्षा में पांच फीसद कम-ज्यादा का आंशिक फेरबदल हो सकता है। हांलाकि कई स्थानों पर बारिश का असमान वितरण होता है। लगभग प्रतिवर्ष असम, बिहार, आदि क्षेत्रों में बाढ़ की स्थिति निर्मित हो जाती है। ऐसे में बाढ़ को लेकर आपदा प्रबंधन विभाग की सक्रियता बढ़ने की उम्मीद है।  

Madhya Bharat Madhya Bharat 5 June 2019

मध्यप्रदेश की खबरें

CBI को कुछ आरोपियों पर है संदेह  मध्य प्रदेश के व्यावसायिक परीक्षा मंडल  घोटाले की जांच कर रहे केंद्रीय जांच ब्यूरो  ने आठ पुराने मामलों को फिर से खोला है | इनमें से पांच मामले अकेले पीएमटी से संबंधित हैं तीन प्रकरण पुलिस आरक्षक, परिवहन आरक्षक और वनरक्षक भर्ती परीक्षाओं के हैं | हालांकि इन पुराने मामलों में पूरे प्रकरणों को फिर से नहीं खोला जा रहा, बल्कि कुछ आरोपियों  को लेकर जांच शुरू की जा रही है |परिवहन आरक्षक में सभी नए नाम हैं, जिनकी जांच एक बार फिर खोली जा रही है | सीबीआई ने आठ पुराने प्रकरणों को दोबारा खोलकर उनकी जांच शुरू कर दी है | इनमें पीएमटी 2009 और 2012 के दो-दो, पीएमटी 2013, वनरक्षक भर्ती 2013, पुलिस आरक्षक भर्ती 2012 और परिवहन आरक्षक भर्ती 2012 के मामले हैं | पीएमटी 2012 और पीएमटी 2013 के मामले इंजन-बोगी वाले परीक्षार्थियों व मूल आवेदक के हैं | वहीं पीएमटी 2012 के जो मामले दोबारा जांच में लिए गए हैं, उनमें अंकों की हेराफेरी और धोखाधड़ी के केस भी हैं | जिन प्रकरणों को सीबीआई ने जांच के लिए दोबारा खोला है, उनमें पीएमटी 2013 के मामले में चिरायु, पीपुल्स, इंडेक्स और एलएन मेडिकल कॉलेजों के संचालक भी आरोपी हैं | इसी तरह पीएमटी 2012 के मामले में पंकज त्रिवेदी, नितिन मोहिंद्रा, अजय कुमार सेन जैसे व्यापमं के तत्कालीन अधिकारी आरोपी हैं | सीबीआई के पास अभी व्यापमं के 11 मामलों की जांच और लंबित है |

Madhya Bharat Madhya Bharat 5 June 2019

मध्यप्रदेश की खबरें

सरकार नर्मदा और नदियों के लिए संकल्पित कंप्यूटर बाबा ने कहा  माँ  नर्मदा और अन्यं नदियां  कैसे बचें  इसके लिए कमलनाथ सरकार संकल्पित है | उन्होंने कहा अब नर्मदा नदी में अवैध खनन नहीं होने देंगे  अपने कामों और बयानों से चर्चा में रहने वाले कंप्यूटर बाबा का कहना है कमलनाथ सरकार नर्मदा नदी को बचने के लिए संकल्पित है | उन्होंने कहा नर्मदा की आस्था बची  रहे इस के लिए पेड़ लगाना ओर परिक्रमा वासियों को सुविधा हो इसके लिए न्यास काम करेगाजल्दी ही नर्मदा युवा सेना का गठन किया जाएगाऔर नर्मदा में अवैध खनन नही होने दिया जाएगाबाबा ने नर्मदा के लिए एक टोल फ्री नंबर जारी किया और कहा सभी दल दलगत राजनीति से ऊपर उठें और नर्मदा के लिए काम करें  |

Madhya Bharat Madhya Bharat 5 June 2019

छतीसगढ़ की खबरें

एक युवक ने अपने ही गावं के ही हत्या कर दी , पंच का कसूर सिर्फ ईटा था की उसने सामाजिक बातों को ध्यान में रखते हुए युवक को समझाइश दी थी। मगर युंवक को पंच का समझाना न गवारा गुजरा। और जब बुजुर्ग अल्बर्ट नाम का पंच अपने घर में सो रहा था |  तब आरोपी प्रदीप खलखो ने कुल्हाड़ी मार कर हत्या कर दी |और खुद भी अपने  घर जा कर सो गया |  जब सुबह पडोसी पंच के पास पहुंचे तो बुजुर्ग अल्बर्ट मृत पा कर गांव वालों और पुलिस को इसकी सुचना दी पुलिस मौके पर पहुंची और अपनी सूझ - बुझ से अंधे क़त्ल की गुथ्थी दस मिनिट में मौके पर ही सुलझा की और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। पंच की निर्मम हत्या से गुस्साए ग्रामीणों ने जैम कर हंगामा किया गावं वालों का कहना था की आरोपी उन्हें सौप दो वे आरोपी  को मार कर  अपना गुस्सा निकलना चाहते थे। एसडीओपी राजेन्द्र सिंह परिहार ने उन्हें समझाइश देकर शांत किया। मामला जशपुर थाना क्षेत्र के लोखंडी गांव की है। जानकारी के मुताबिक कोतवाली पुलिस को सोमवार की सुबह सूचना मिली कि इस गांव के चिरोटोली बस्ती के निवासी अल्बर्ट तिर्की पिता खेबेस्टियन तिर्की 65 वर्ष का खून में लथपथ शव उसके घर के अंदर पड़ा हुआ है। सूचना पर एसडीओपी जशपुर राजेन्द्र सिंह परिहार,कोतवाली प्रभारी लक्ष्मण सिंह धुर्वे,उप निरीक्षण अरविन्द मिश्रा सहित पुलिस की टीम मौके पर पहुंची। शव के परीक्षण के दौरान पुलिस अधिकारियों ने मृतक के गर्दन,मुंह और कंधे में धारदार हथियार के घाव के निशान पाएं। शव के आसपास चारो तरफ खून बिखरा हुआ था। आसपास मौजूद ग्रामीणों ने बताया कि बुजुर्ग अल्बर्ट तिर्की बस्ती के सम्मानित व्यक्ति थे और सभी लोग उन्हें समाज का प्रमुुख मान कर उनकी बातों को तरजीह दिया करते थे। उनका कभी किसी से ना तो विवाद हुआ और ना ही झगड़ा। पुलिस की टीम की मुश्किल उस वक्त बढ़ गई, जब ग्रामीणों ने बताया कि घटना के वक्त बुजुर्ग घर में अकेले ही सो रहे थे। मामला अंधे कत्ल का लग रहा था।   शव का पंचनामा करने के बाद एसडीओपी राजेन्द्र परिहार ने जब इस मामले में ग्रामीणों से पूछताछ किया तो पता चला कि बस्ती में रहने वाले आरोपी प्रदीप खलखो पिता अलबिनुस खलखो 35 वर्ष को लेकर रविवार को गांव में एक बैठक का आयोजन किया गया था। प्रदीप अपराधी प्रवृत्ति का व्यक्ति है और आए दिन गांव में उत्पात व आतंक मचाते रहता है।       इस बीच गांव की मितानीन शीला मिंज ने जांच अधिकारियों को बताया कि रात को तकरीबन 11 बजे आरोपी प्रदीप उसके पास पैर में लगे हुए चोट के लिए दवा मांगने के लिए आया था। इस बीच,जांच में सहयोग देने के लिए स्नीफर डॉग की टीम भी मौके पर पहुंच गई।   स्नीफर डॉग शव का गंध लेकर घटना स्थल से तकरीबन 300 मीटर दूर खेत के पास जा पहुंचा। यहां पुलिस की टीम ने हत्या में प्रयुक्त कुल्हाड़ी जब्त किया। इस बीच इस पूरे प्रकरण में प्रदीप खलखो की संदिग्ध भूमिका को देखते हुए एसपी शंकर लाल बघेल के नेतृत्व में कड़ाई से पूछताछ करना शुरू किया। शुरूआत में प्रदीप ने पुलिस के अधिकारियों को गुमराह करने का प्रयास करता रहा, लेकिन जब अधिकारियों ने सख्ती से पूछताछ की तो प्रदीप ने बुजुर्ग अल्बर्ट की हत्या का गुनाह कबूल कर लिया।  

Madhya Bharat Madhya Bharat 5 June 2019

छतीसगढ़ की खबरें

   मुख्य सचिव  मुख्यमंत्री की सभा में जा रहे थे , जब थानेदार ने रोका तो नाराज मुख्य सचिव ने इसकी शिकायत आइजी से कर दी, जिसके बाद थानेदार को निलंबित कर दिया गया। पाली ब्लॉक के ग्राम राझरिया में मंगलवार को सीएम की  सभा के दौरान मुख्य सचिव सुनील कुजूर से आइडी दिखाने की बात कहना ड्यूटी पर तैनात दर्री थानेदार रघुनंदन प्रसाद शर्मा को महंगा पड़ गया। नाराज मुख्य सचिव ने इसकी शिकायत आइजी से कर दी, जिसके बाद थानेदार को निलंबित कर दिया गया । मुख्य सचिव ने जैसे ही अपना परिचय थानेदार को दिया, उन्होंने माफी भी मांग ली। बता दें कि मंगलवार को ही थानेदार शर्मा का जन्मदिन था। ऐसे में महकमे में इस कार्रवाई की चर्चा होती रही। इसी कार्यक्रम के दौरान स्टाल के निरीक्षण के समय कटघोरा विधायक पुरुषोत्तम कंवर को एक सुरक्षाकर्मी ने रोका तो वे उखड़ गए। हालांकि बाद में उन्हें जाने दिया गया। 

Madhya Bharat Madhya Bharat 5 June 2019

Video

Page Views

  • Last day : 2183
  • Last 7 days : 12598
  • Last 30 days : 39041
All Rights Reserved ©2019 MadhyaBharat News.