Since: 23-09-2009

  Latest News :
बच्चों को सोशल स्टेटस ना बनाएं माता-पिता.   कावेरी से तमिलनाडु को मिलने वाले पानी में कटौती.   राज्यपाल आनंदीबेन पटेल दिल्ली में सांसदों से मिलीं.   अब पार्टी के साथ राहुल मेरे भी बॉस : सोनिया गांधी.   एडवांटेज असम सिर्फ स्टेमेंट नहीं बल्कि एक विजन:मोदी .   शिव मंत्रि-परिषद् में तीन नये मंत्री .   फसल नुकसान का आकलन पूरी पारदर्शिता के साथ करने के निर्देश.   तीन करोड़ से ज्यादा मोबाइल का आधार नहीं .   40 प्रतिशत तक बढ़ेगा यात्री बसों का किराया.   बेटियाँ आगे बढ़ेंगी तभी प्रदेश आगे बढ़ेगा.   55 लाख जरूरतमंदों को 513 करोड़ रुपये की मदद.   बाधाओं की चिंता छोड दें, सरकार उठायेगी शिक्षा का खर्च - मुख्यमंत्री.   राजनांदगंव में कांग्रेस नहीं उतरेगी बड़ा चेहरा .   नक्सलियों को कुचलने की तैयारी.   सड़क निर्माण के विरोध में नक्सलियों ने 10 वाहनों को फूंका.   अब बस्तर में विकास बनेगा हथियार.   बच्ची को नोंचकर मार डाला कुत्तों ने .   तुमला में हाथी का उत्पात .  

देश की खबरें

मध्यप्रदेश की खबरें

छत्तीसगढ़ की खबरें

प्रेशर बम के एक्सपर्ट नक्सली गिरफ्तार
प्रेशर बम के एक्सपर्ट नक्सली गिरफ्तार

दरभा डिवीजन के कटेकल्याण एरिया कमेटी का जनमिलीशिया कमांडर सहित तीन नक्सलियों को पुलिस ने दंतेवाड़ा के बाजार से गिरफ्तार किया। एक लाख रुपए के इनामी जनमिलीशिया कमांडर पर एक लाख रुपए का इनाम घोषित था। वह प्रेशर बम लगाने और उसे निकालने माहिर है। गिरफ्तार नक्सली से पुलिस और महत्वपूर्ण जानकारी मिलने की उम्मीद जताई है।

नक्सल आपरेशन एएसपी जीएन बघेल, प्रशिक्षु आईपीएस डॉ. अभिषेक पल्लव और डीएसपी सुरेश लकरा ने बताया कि आत्मसमर्पित नक्सलियों की निशानदेही पर बुधवार को जिला मुख्यालय से तीन नक्सलियों को गिरफ्तार किया गया।

इनमें वेट्टी वारसा उर्फ फगनू पिता मंगडू कटेकल्याण एरिया कमेटी का जनमिलीशिया कमांडर है। जबकि ग्राम सूरनार गायतापारा निवासी मासा उर्फ कुम्मा उर्फ गुड्डी पिता वोटी माड़वी डूमाम एलओएस का सदस्य तथा पाड़ा पिता नंदा माड़वी जनताना सरकार का कमेटी सदस्य है। अधिकारियों ने बताया कि वेट्टी वारसा कई वर्षों नक्सलियों के लिए काम करते प्रेशर बम लगाने में माहिर हो गया है।

कटेकल्याण थाने में उसके खिलाफ कई मामले दर्ज हैं और तलाश की जा रही थी। 20 अप्रैल 2016 को परचेली-मारजूम के बीच जंगल-पहाड़ी में पुलिस पर हमला करने में शामिल था। इस मुठभेड़ में एक पुलिस जवान शहीद हो गया। इसके ठीक दो माह बाद 20 जून को मुनगा पहाड़ी में पुलिस पार्टी पर हमला किया था। मई माह में डुमाम नदी के पुल पर बम लगाया वहीं मई में ही जोंगेरास पहाड़ी पर हुए मुठभेड़ में वारसा शामिल होना स्वीकारा है। इस नक्सली पर सरकार ने एक लाख रुपए का इनाम भी घोषित कर रखा था।

मासा उर्फ गुड्डी भी नक्सलियों से जुड़कर डूमाम एलओएस का सदस्य बनने के बाद वर्तमान में जनताना सरकार कमेटी अध्यक्ष के रुप में काम कर रहा था। जबकि पाड़ा पिता नंदा माड़वी जनताना कमेटी का सदस्य है। दोनों का काम नाच-गाना कर नक्सली संदेश बताना और लोगों को संगठन से जोड़ना था। गिरफ्तार नक्सलियों के कब्जे से पुलिस ने नाट्य दल के सामग्री, वस्त्र के साथ तीर-धनुष, एक टिफिन बम, चाकू, बांसुरी, घुंघरू और ढपली एक बैग और बोरे से बरामद किया है।

वेट्टी वारसा ने मीडिया के समक्ष कहा कि वह मजबूरी में नक्सलियों के साथ काम करता था। एक बार पुलिस के पास आत्मसमर्पण की कोशिश की तो पता चलने पर नक्सली कमांडरों ने जुर्माना वसूलने के साथ खूब पीटा था। इसके चलते नक्सली कमांडर बामन, आयतु और मासा के इशारों का कठपुतली बन गया था। डर की वजह से सभी निर्देशों का पालन करता था। मेरा भाई भी उसके कमांडर सुकराम के साथ काम कर रहा है।

 

MadhyaBharat 8 January 2017

Comments

Be First To Comment....
Video

Page Views

  • Last day : 2842
  • Last 7 days : 18353
  • Last 30 days : 71082

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

All Rights Reserved ©2018 MadhyaBharat News.