Since: 23-09-2009

  Latest News :
राफेल डील हमारे लिए बूस्टर डोज : वायुसेना चीफ.   नरेंद्र सिंह तोमर की तबीतय बिगड़ी, एम्स में भर्ती.   राम और रोटी के सहारे कांग्रेस .   डीजल-पेट्रोल के दाम में फिर लगी आग.   अयोध्या केस की सुनवाई 29 अक्टूबर से रोज होगी.   कर्नाटक में कम हुए डीजल-पेट्रोल के दाम.   कुरीतियों को समाप्त करने में योगदान करें महिला स्व-सहायता समूह.   गरीबों के बकाया बिजली बिल के माफ हुए 5200 करोड़ :चौहान.   ग्रामीण महिलाओं से संवाद के प्रयास जरूरी : जनसम्पर्क मंत्री डॉ. मिश्र.   ग्रामीण महिलाओं से संवाद के प्रयास जरूरी : जनसम्पर्क मंत्री डॉ. मिश्र.   जनसम्पर्क मंत्री डॉ. मिश्र ने किया विशेषांक का विमोचन.   भोपाल में सब रजिस्ट्रार अशोक को घूस लेते लोकायुक्त पुलिस ने पकड़ा .   सुकमा मुठभेड़ में तीन नक्सली मरे ,नारायणपुर में तीन का समर्पण .   पखांजूर में शुरू होगा नया कृषि महाविद्यालय.   रमन सरकार नक्सलियों को लेकर उदार हुई .   दिग्विजय सिंह बोले -अजीत जोगी के कारण मप्र में हारे थे.   100 करोड़ का लिया लोन, और नहीं चुकाया एक पैसा भी .   प्रेशर बम की चपेट में आने से दो ग्रामीणों की मौत.  
पखांजूर में शुरू होगा नया कृषि महाविद्यालय
atal vikas yatra

अटल विकास यात्रा के तहत मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह शनिवार को पखांजूर पहुंचे। उन्होने यहां श्यामप्रसाद मुखर्जी स्टेडियम में जनसभा को संबोधित करते हुए पखांजूर में आगामी सत्र से कृषि महाविद्यालय खोले जाने की घोषणा की। डॉ रमन ने यहां अलग-अलग विकास कार्यों का लोकार्पण, भूमिपूजन व नई योजनाओं की आधारशिला रखते हुए लगभग 189 करोड़ रुपये के विकास कार्यों की सौगात दी।

कहा कि नीली क्रांति में पखांजूर पूरे प्रदेश में दूसरे स्थान पर है। यहां का मछली पालन उद्योग दूसरे राज्यों के लिए मॉडल बन रहा है। यहां जिस तरह से तलाबों का विकास और मछली उत्पादन का विकास हुआ है, वह अपने आप में दूसरों के लिए मॉडल है। यहां लोगों में मछली पालन के द्वारा आत्मनिर्भरता आई है। लोगों की वार्षिक आय बढ़ी है। पूरा पखांजूर इलाका विकास की दृष्टि से आगे बढ़ रहा है।

विभिन्न विकास कार्यों के शिलान्यास के साथ ही डॉ रमन ने यहां नवनिर्मित 132 केवी विद्युत उपकेंद्र का लोकार्पण भी किया प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने के बाद जो माहौल तैयार हुआ वह पूरी तरह विकास का समर्थन करता है। प्रदेश में गांवों से लेकर शहरों तक विकास हो रहा है। पहले न यहां सड़कें थीं, न बिजली थी। छत्तीसगढ़ में सरकार की ओर से विद्युत उत्पादन, वितरण, पारेषण, संधारण में लगातार बेहतर काम हुआ है। फ्लैट रेट पर 12 लाख लोगों को अब बिजली देने की व्यवस्था सरकार ने की है। एक पावर स्टेट के रूप में छत्तीसगढ़ ने देश भर में अपनी पहचान बनाई है।

MadhyaBharat 29 September 2018

Comments

Be First To Comment....
Video

Page Views

  • Last day : 1277
  • Last 7 days : 9431
  • Last 30 days : 36886


All Rights Reserved ©2018 MadhyaBharat News.