Since: 23-09-2009

  Latest News :
सिद्धू की पैरवी कर रही है प्रियंका गांधी.   काऊब्वॉय हैट पहन कर निकले कबूतर.   राहुल गाँधी :किसानों का कर्ज माफ होकर रहेगा.   RBI का अलर्ट अभी और बिगड़ेंगे आर्थिक हालात.   कर्नाटक विधानसभा उपचुनाव के नतीजे घोषित.   हैण्डलूम एक्सपोर्ट कार्पोरेशन ने भुगतान रोका.   कुदरत की मार ने तोड़ी किसानों की कमर.   कैब नागरिकता देने वाला कानून,लेने वाला नहीं.   अतिथि विद्वानों का सरकार के खिलाफ धरना.   बेमौसम बारिश से मंडी में रखी धान बर्बाद.   कार्यालयों से नदारद रहते है पंचायत सचिव.   मुख्यमंत्री के छिंदवाड़ा में शिक्षा विभाग के बुरे हाल.   दो युवतियों की जघन्य हत्या .   किसानो ने किया सीएम भूपेश बघेल का पुतला दहन.   युवक ने किया सरेआम महिला पर हँसिये से हमला.   दुष्कर्मी को पीटने कोर्ट परिसर में दौड़ीं महिलाएं.   ITBP जवान ने साथी पर की फायरिंग 6 की मौत.   नक्सली DKMS अध्यक्ष सन्ना हेमला हुआ सरेंडर.  
येदियुरप्पा शक्ति परीक्षण के लिए तैयार
 KARNATAKA KA NATAK

बागी विधायकों के संपर्क में येदियुरप्पा

 

कर्नाटक में जारी राजनीतिक नाटक के बीच बीजेपी अध्यक्ष येदियुरप्पा ने कहा है कि वे सदन में शक्ति परीक्षण के लिए तैयार है  येदियुरप्पा ने कहा कि अगर सरकार विश्वास प्रस्ताव लाना चाहती है तो उन्हें कोई आपत्ति नहीं है  कर्नाटक के पूर्व सीएम ने बताया कि वे सोमवार तक इंतजार करेंगे

कर्नाटक के सीएम एचडी कुमारस्वामी ने भी कहा है कि उनकी सरकार को कोई खतरा नहीं है वे विश्वास प्रस्ताव लाएंगे  पूर्व सीएम येदियुरप्पा ने स्वीकार किया कि वे मुंबई में मौजूद कांग्रेस के बागी विधायकों से संपर्क में है, वे सभी खुश हैं  येदियुरप्पा ने कहा कि एचडी कुमारस्वामी को तुरंत इस्तीफा देना चाहिए और नई सरकार गठित होने देना चाहिए, लोग इस सरकार से उब चुके हैं इधर पांच और बागी विधायक सुप्रीम कोर्ट चले गए हैं इन विधायकों ने कोर्ट से शिकायत की है कि स्पीकर के आर रमेश कुमार उनका इस्तीफा स्वीकार नहीं कर रहे हैं  इन विधायकों के नाम हैं, के सुधाकर, रोशन बेग, एमटीबी नागराज, मुनिरत्न और रत्न सिंह इन विधायकों का कहना है कि स्पीकर का रवैया उनके संवैधानिक और मौलिक अधिकारों का उल्लंघन है  विधायकों ने अपनी याचिका में कहा है कि उन्हें सरकार का समर्थन करने को कहा जा रहा है अन्यथा उन्हें अयोग्य घोषित करने की धमकी दी जा रही है  रिपोर्ट के मुताबिक इनमें से कुछ विधायक जब इस्तीफा देने गए थे तो उनके साथ धक्का-मुक्की गई थी  कानूनी विशेषज्ञों के मुताबिक विधायिका का कोई भी चयनित जनप्रतिनिधि अपनी चेतना के आधार पर इस्तीफा दे सकता है ये उसका मौलिक अधिकार है  

 

 

 

 

 

 

MadhyaBharat 13 July 2019

Comments

Be First To Comment....
Video

Page Views

  • Last day : 5596
  • Last 7 days : 32148
  • Last 30 days : 146931


All Rights Reserved ©2019 MadhyaBharat News.