Since: 23-09-2009

  Latest News :
PM मोदी ने छत्तीसगढ़ पुलिस ऑनलाइन व्यवस्था की प्रशंसा की.   कंगना:निर्भया के दरिंदों को चौराहे पर फांसी दी जाए.   मोदी सरकार को बजट से पहले एक और झटका .   CAA पर रोक लगाने से सुप्रीम कोर्ट का इंकार.   हत्या कर महिला और पुरुष को घर में जलाया.   CAA पर अब कांग्रेस में मचा घमासान.   कलेक्टर पर टिप्पणी को लेकर कर्मचारी संघ हड़ताल पर.   पुलिस ने चलाया अवैध शराब कारोबार के विरुद्ध अभियान.   बंदूक के साये में हो रही बिजली बिल की वसूली.   ऐंटी माफिया अभियान के तहत दो जगहों पर कारवाई.   सत्ता के नशे में चूर मंत्री कमलेश्वर पटेल.   पानी की टंकी पर चढ़ा छात्र.   उद्योगपति प्रवीण सोमानी को छुड़ाया गया.   मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में हुई बजट पर बैठक.   छात्रों को पीएम का संबोधन लाइव दिखाया गाया.   मकान से जिंदा कारतूस और मैगजीन मिले.   मंत्री की चापलूसी में प्रशासन ने की सारी हदें पार .   नगर पालिका अध्यक्ष के पद ग्रहण कार्यक्रम मे हंगामा.  
महिला को बेशर्म कहने वाली पुलिस

भोपाल पुलिस का अभद्र चेहरा सामने आया 

गृह मंत्री जी पुलिस को सुधारिए 

सरकार को बदनाम करवाती पुलिस 

 

गृह मंत्री बाला बच्चन जी ये खबर आपको समर्पित है  देश भक्ति और जनसेवा के नारे तले काम करने वाली राजधानी भोपाल की पुलिस का एक दूसरा ही चेहरा सामने आया है  भोपाल पुलिस सड़कों पर लोगों से मारपीट करती है और पुलिस के अधिकारी फोन पर महिलाओं  से बदतमीजी से पेश आते हैं   मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद से कुछ पुलिस वाले लगातार ऐसी हरकतें कर रहे हैं जिससे सरकार की मट्टी पलित हो  देख लीजिये कहीं इस सब के पीछे भी तो बीजेपी का हाथ नहीं है  

गृह मंत्री बाला बच्चन जी हमारी धारणा है कि मध्यप्रदेश पुलिस में 70 प्रतिशत लोग बहुत संजीदा है और जन हित और पीड़ित लोगों को न्याय दिलवाने की कोशिश करते हैं   लेकिन राजधानी भोपाल  पुलिस के कुछ अधिकारी किस भाषा मे बात करते  हैं ये बाद में बताएँगे  पहले देखिये इस वीडिओ को  लिंक रोड नंबर एक पर दो लड़कों में कहासुनी हो गई  बस फिर क्या था पुलिस ने सड़क पर ही इनका ठुकाई पिटाई कार्यक्रम शुरू कर दिया  और तबियत से इनकी धुनाई कर दी   एक शख्स जो इस घटना का वीडिओ बना रहा था पुलिस ने ऐसा करने पर उसे भी धमकाया  लगता है ये पुलिस या तो  ताबदलों से त्रस्त हो कर या फिर कांग्रेस सरकार के खिलाफ आम लोगों में आक्रोश पैदा करने के लिए जानबूझकर ऐसे काम कर रही है  पुलिस व्यवस्था एकदम चरमरा सी गई है    

राजधानी पुलिस का दूसरा चेहरा भी देखिये  रात में नींद में खलल पड़ने पर पुलिस के एक अधिकारी न सिर्फ पीड़ित महिला से बदतमीजी से पेश आए  बल्कि उस पर मुकदमा ठोककर 15 दिन के लिए जेल भेज देने की धमकी भी दी  जिस अफसर की जिम्मेदारी हर पक्ष को सुनकर मामला दर्ज करने की है न की किसी के बारे में भी राय कायम करने की  उसका ये बर्ताव बताता है कि पुलिस जनता के बीच में जानबूझकर सरकार की छवि खराब कर रही है  भोपाल के मिसरोद इलाके के  S D O P अनिल त्रिपाठी साहब की जुबान कैसी है  इसका ऑडिओ वायरल हो चुका है लेकिन आला अधिकारीयों को इससे क्या लेना देना 

पुलिस का एक अफसर एक पीड़ित महिला से कहे  तुझे शर्म नहीं आती  रात में पुलिस को परेशान करती है   तो मंत्री बाला बच्चन जी जनता को बताएं कि आपके राज में पीड़ित जनता परेशानी में अधिकारीयों को कब फोन लगाए और कब न लगाएं और हाँ मंत्री जी ये तो राजधानी पुलिस का एक नमूना भर है  जब भोपाल के ये हाल हैं तो सोचिये बाकि प्रदेश का हाल क्या होगा   

 

MadhyaBharat 22 July 2019

Comments

Be First To Comment....
Video

Page Views

  • Last day : 4700
  • Last 7 days : 27162
  • Last 30 days : 136738


All Rights Reserved ©2020 MadhyaBharat News.