Since: 23-09-2009

  Latest News :
बरेली को आखिर मिल गया अपना झुमका.   शाहहिं बाग़ पर सुप्रीम कोर्ट की दो टूक .   दिल्ली Exit Poll में कांग्रेस के बुरे हाल.   पद्मश्री से सम्मानित गिरिराज किशोर का निधन.   डंडामार पर बोले मोदी- मेरे पास जनता का कवच.   डंडे वाले बयान पर पीएम मोदी का जवाब.   रेलवे फुटओवर ब्रिज का हिस्सा गिरने से 9 लोग घायल.   संदेहास्पद परिस्थितियों में हुई विचारधीन कैदी की मौत.   रेत से भरे दो दर्जन टेक्टर ट्रॉली पकडे गए.   छेड़खानी करना युवक को पड़ा महंगा.   नायब तहसीलदार ने पकड़े अवैध रेत से लदे 4 ट्रैक्टर.   धान खरीदी पर अड़े किसान,बैरंग लौटा प्रशासन.   अस्पताल से छह दिन का बच्चा चोरी.   जवानों ने बरामद किया प्रेशर आईईडी बम.   अस्तित्व में आया गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिला.   CM भूपेश ने बच्चों से कहा डर छोड़कर साहसी बनें.   अबूझमाड़ पीस हाफ मैराथन का किया गया आयोजन.   छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा.  
नीति आयोग की रैकिंग में छत्तीसगढ़ 21वें स्थान पर
 NITI AAYOG RANKING CG

15 वें से 21 वे  नंबर  खसक गया छत्तीसगढ़

 

नीति आयोग ने 16 मापदंडों के आधार पर देश के 28 राज्यों का एसडीजी इंडेक्स 2019 जारी किया  |  इनमें से 15 मानकों पर छत्तीसगढ़ को परखा गया है   इनमें से चार में राज्य का प्रदर्शन बेहतर माना गया है  | वहीं, पांच सेक्टर में स्थिति ठीक बताई गई है, जबकि छह सुधार की गुंजाइश  है  |  हालांकि 2018 की तुलना में इस वर्ष राज्य की ओवर ऑल रैकिंग में कमी आई है  | 

नीति आयोग की रैंकिंग में  पिछले वर्ष  छत्तीसगढ़ 15वें स्थान पर था, इस बार छह अंक फिसल कर 21 पर आ गया है  |  पड़ोसी राज्य मध्यप्रदेश और ओडिशा की स्थिति यहां से ठीक है, लेकिन बाकी पड़ोसी राज्य नीचे हैं  | आयोग की रिपोर्ट के अनुसार गरीबी के मामले में राज्य की स्थिति में बेहतर सुधार हुआ है  |  राज्य 21वें से 15वें स्थान पर आया है  |  इसके बावजूद इसमें सुधार की गुंजाइश  बनी हुई है  |  स्वास्थ्य के मामले में बीते वर्ष की तुलना में राज्य को 10 अंक अधिक मिले हैं  | लेकिन रैकिंग 21वें स्थान पर ही बनी हुई है  | गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के मामले में एक स्थान के सुधार के साथ राज्य 19वें से 18वें स्थान पर आ गया है  | इसके विपरीत लिंग अनुपात के मामले में राज्य तीसरे से फिसल कर सातवें स्थान पर चला गया है  | अधोसरंचना विकास के मामले में भी 21 से 22 स्थान पर पहुंच गया है  |  छत्तीसगढ़ में  स्वास्थ्य और कल्याण, गुणवत्तापूर्ण शिक्षा, सस्ती और स्वच्छ ऊर्जा, असमानता में कमी और सतत उपभोग और उत्पादन  में  सुधार की जरूरत बताई गई है  | इस सूचि में मध्यप्रदेश और ओडिशा  15 वे  | झारखंड- 26  वे उत्तर प्रदेश- 23 वे स्थान पर है  | नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने विकास लक्ष्यों को लेकर जारी सूचांक पर चिंता व्यक्त करते कहा कि छत्तीसगढ़ बुरे आर्थिक दौर से गुजर रहा है |  इस बात को विकास लक्ष्यों में प्रदेश के 21 वें नंबर पर आना साबित करता है  | उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार की नियत और नीति सही नहीं है | यही कारण है कि प्रदेश का विकास थाम सा गया है |  प्रदेश  विकास क्रम में लगातार पिछड़ रहा है  |  जिसके लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री जिम्मेदार हैं  | 

 

 

MadhyaBharat 4 January 2020

Comments

Be First To Comment....
Video

Page Views

  • Last day : 7496
  • Last 7 days : 36890
  • Last 30 days : 148842


All Rights Reserved ©2020 MadhyaBharat News.