Since: 23-09-2009

  Latest News :
वर्चस्व के लिए कांग्रेस के नेता आपस में भिड़े.   बरेली को आखिर मिल गया अपना झुमका.   शाहहिं बाग़ पर सुप्रीम कोर्ट की दो टूक .   दिल्ली Exit Poll में कांग्रेस के बुरे हाल.   पद्मश्री से सम्मानित गिरिराज किशोर का निधन.   डंडामार पर बोले मोदी- मेरे पास जनता का कवच.   लक्ष्मण सिंह ने कहा कंप्यूटर बाबा फर्जी.   हाथों में आकाश उठाएं धरती बाधे पांव में.   स्वच्छता अभियान कोडिनेटर नीलम तिवारी गिरफ्तार.   सिंधिया समर्थकों ने भी खोला मोर्चा.   राष्ट्र निर्माण में युवाओं की भूमिका पर कार्यक्रम.   वन विभाग जहाँ मुर्दे भी करते हैं हस्ताक्षर.   अस्पताल से छह दिन का बच्चा चोरी.   जवानों ने बरामद किया प्रेशर आईईडी बम.   अस्तित्व में आया गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिला.   CM भूपेश ने बच्चों से कहा डर छोड़कर साहसी बनें.   अबूझमाड़ पीस हाफ मैराथन का किया गया आयोजन.   छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा.  
अस्तित्व में आया गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिला
 new district in Chhattisgarh

अब छत्तीसगढ़ में  हो गए हैं कुल  28 जिले

 

छत्तीसगढ़ के नवगठित 28वें जिले गौरेला-पेंड्रा-मरवाही सोमवार को अस्तित्व में आ गया  |  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, विधानसभा अध्यक्ष चरणदास महंत, नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक और पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी की मौजूदगी में आज दोपहर इसका औपचारिक शुभारंभ हुआ |  शिखा राजपूत तिवारी इस जिले के प्रथम कलेक्टर और परिहार एसपी तैनात किए गए हैं  |  शुभारंभ अवसर पर उपस्थितजनों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ऐलान किया कि नए जिले में पसान तहसील भी शामिल  होगी   | 

नवगठित जिले में तीन तहसील तथा तीन विकासखण्ड गौरेला, पेंड्रा और मरवाही शामिल किया गया था  | शुभारंभ अवसर पर मंच से पसान तहसील को भी इसमें शामिल करने का ऐलान किया गया  | जिले का क्षेत्रफल 1 लाख 68 हजार 225 हेक्टेयर होगा। जिले में मरवाही विधानसभा के 200 गांव और कोटा विधानसभा के 25 गांव, कोरबा लोकसभा क्षेत्र के 200 गांव और बिलासपुर लोकसभा क्षेत्र के 25 गांव शामिल हैं  | गौरेला-पेंड्रा-मरवाही क्षेत्र पत्रकारिता में अपनी अलग पहचान रखता है  |  छत्तीसगढ़ का प्रथम समाचार पत्र छत्तीसगढ़ मित्र का प्रकाशन मासिक पत्रिका के रूप में पेंड्रा से वर्ष 1900 में पंडित माधवराव सप्रे के संपादन में  शुरू हुआ था  | खनिज संपदा और औषधीय पौधे यहां की पहचान है  | यहां के विष्णुभोग चावल की महक पूरे देश में फैली है  | गौरेला पेंड्रा मरवाही जिला दूरस्थ वनांचल में स्थित है  | जिला मुख्यालय बिलासपुर से मरवाही तहसील के अंतिम छोर की दूरी लगभग 165 किलोमीटर है  |  

 

MadhyaBharat 10 February 2020

Comments

Be First To Comment....
Video

Page Views

  • Last day : 5826
  • Last 7 days : 36624
  • Last 30 days : 155508


All Rights Reserved ©2020 MadhyaBharat News.