Since: 23-09-2009

Latest News :
दिल्ली में हेलिकॉप्टर से पानी के छिड़काव की तैयारी.   अचार, मुरब्बा बनाने की तकनीक दुनिया को करती है उत्साहितः मोदी.   गुजरात में चुनाव दिसम्बर में होने के संकेत.   मीडिया की गति और नियति.   PM मोदी, पूर्व पीएम मनमोहन सिंह की मौजूदगी में रावण दहन .   राज ठाकरे की चुनौती, पहले सुधारो मुुंबई लोकल फिर बुलेट ट्रेन की बात.   कबीर की शिक्षा समाज के लिये संजीवनी : कबीर महोत्सव में राष्ट्रपति श्री कोविंद.   चित्रकूट में एक हजार से अधिक लायसेंसी हथियार जमा.   भावांतर भुगतान योजना में एक लाख 12 हजार से अधिक किसानों द्वारा 32 लाख क्विंटल उपज का विक्रय .   उद्योग संवर्द्धन नीति-2014 में संशोधन की मंजूरी.   मुख्यमंत्री शिवराज के निवास पर दशहरा पूजा.   मानव जीवन के लिए नदी बचाना जरूरी : चौहान.   मूणत CD कांड - फॉरेंसिंक रिपोर्ट आते ही शुरू होगी CBI जांच.   मूणत की CD का सच सीबीआई को सौंपने दिल्ली पहुंची एसआईटी.   पुलिस लाइन रायगढ़ के प्रशासनिक भवन में आग.   बीमार पत्नी से झगड़ा पति, हत्या कर फांसी पर झूला.   बस्तर दशहरा के लिए माई जी को न्यौता.   बस्तर को अलग राज्य बनाने की मांग.  

बुरहानपुर News


अर्चना चिटनिस

महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनिस ने कहा है कि प्रदेश में कुपोषण नियंत्रण के लिये महिला एवं बाल विकास विभाग के साथ-साथ कृषि और इससे संबंधित विभागों को समन्वित प्रयास करने होंगे। श्रीमती चिटनिस पोषण परिपूर्ण ग्राम की अवधारणा के क्रियान्वयन के लिए विशेषज्ञ समूह की बैठक की अध्यक्षता कर रही थीं। महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती चिटनिस ने कहा कि गाँव में कृषि एवं अनुषांगिक गतिविधियों के माध्यम से ग्रामीण आवश्यकताओं को स्‍थानीय उपज से पूरा कर कुपोषण से निजात दिलायी जा सकेगी। उन्होंने बताया कि इस योजना पर कार्य शुरू कर दिया गया है। कृषि विज्ञान केन्द्रों के समन्वय से प्रत्येक परियोजना में एक ग्राम को पोषण परिपूर्ण ग्राम के रूप में विकसित करने की योजना है। इस अवसर पर जिलों से आए कृषि वैज्ञानिकों ने कार्य-योजना का प्रस्तुतिकरण किया। बैठक में प्रमुख सचिव महिला एवं बाल विकास श्री जे.एन. कंसोटिया, आईसीडीएस प्रोजेक्ट डायरेक्टर सुश्री निधि निवेदिता, कृषि विज्ञान केन्द्र जोन-7 अटारी के निदेशक कृषि वैज्ञानिक श्री अनुपम मिश्र, संचालक कृषि उद्यानिकी, पशुपालन विभाग के अधिकारी मौजूद थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 July 2017

bjp vin

नेपानगर से जीतीं भाजपा प्रत्याशी मंजू दादू मध्य प्रदेश के शहडोल लोकसभा और नेपानगर विधानसभा क्षेत्रों में बीजेपी का परचम लहराया , सबसे पहले परिणाम नेपानगर से आए। यहां मंजू दादू ने 40,000 से ज्यादा मतों के अंतर से कांग्रेस के अंतर सिंह बर्डे को हराकर जीत हासिल की। वहीं, शहडोल में भी भाजपा के ज्ञान सिंह ने 57 हजार से ज्यादा मतों से कांग्रेस की हिमाद्री को हराया।  जनता का शुक्रिया करने के लिए मेरे पास शब्द नहीं: मंजू अपनी जीत का श्रेय जनता को देते हुए मंजू ने कहा कि, आप सभी का शुक्रिया करने के लिए पूरे दादु परिवार के पास शब्दकोष नहीं है। आप सभी ने हमारे परिवार पर जो प्रेम और आशीर्वाद बनाए रखा है वह एक मिसाल की तरह सदा मुझे एक सुखद एहसास कराता रहेगा। यह जीत मैं आप सभी से लाडले विधायक स्व. राजेन्द्र जी दादु को समर्पित करती हूं। शहडोल लोकसभा उपचुनाव में भाजपा के ज्ञान सिंह और कांग्रेस की हिमाद्री सिंह के अलावा 15 और प्रत्याशी चुनावी मैदान में थे। वहीं, नेपानगर में भाजपा की मंजू दादू, कांग्रेस के अंतरसिंह के अलावा दो अन्य प्रत्याशी चुनावी मैदान में थे। शहडोल लोकसभा उपचुनाव भाजपा सांसद दलपत सिंह परस्ते के निधन के चलते हुआ है। वहीं, नेपानगर विधानसभा का उपचुनाव भाजपा विधायक राजेन्द्र दादू के निधन के कारण हुआ।              

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 November 2016

gyan singh

  शहडोल उपचुनाव में इस बार मतदान का प्रतिशत बढ़ने को दोनों राजनीतिक दल अपने-अपने फायदे के रूप में देख रहे हैं। भाजपा का मानना है कि मतदान का प्रतिशत बढ़ने से उसे फायदा होगा और उसकी जीत क आंकड़ा बढ़ेगा। वहीं कांगे्रस का मानना है कि उम्रदराज ज्ञान सिंंह के बजाए जनता ने युवा हिमाद्री को पसंद किया है। कांगे्रस का दावा है कि मतदान का प्रतिशत बढ़ने का इसका कांग्रेस को मिलना तय है। कांग्रेस का दावा है कि उसकी प्रत्याशी अप्रत्याशित जीत दर्ज करेंगी। उसका कहना है कि नोटबंदी मुद्दे का लाभ भी उसे मिलेगा। शहडोल में जहां चार प्रतिशत बढ़ा है, वहीं नेपानगर में चार फीसदी घटा है। नेपानगर में पहले हुए चुनाव में मतदान प्रतिशत 76 था जो इस बार उपचुनाव में 72 प्रतिशत तक आ गया है। दूसरी ओर शहडोल में 62 प्रतिशत मतदान पूर्व में हुए चुनाव में हुआ था जो इस बार 66 प्रतिशत तक पहुंच गया। मुद्दाविहीन थी कांग्रेस, लीड बढ़ना तय: ज्ञान सिंह भाजपा प्रत्याशी और प्रदेश के आदिमजाति कल्याण मंत्री ज्ञान सिंह का कहना है कि यह चुनाव मुख्यमंत्री शिवराज सिंह द्वारा पूरे शहडोल संभाग में कराए गए विकास कार्यो को मुद्दा बनाकर लड़ा गया है। मुख्यमंत्री की सभाओ में उमड़ी भीड़ यह बताने को पर्याप्त थी कि जनता उनके कामों से खुश है। उन्होंने दावा किया कि उपचुनाव में भी विजय भाजपा की ही होगी। चार फीसदी मतदान बढ़ने पर ज्ञान सिंह का कहना था कि लोगों ने उत्साह के साथ मतदान किया है।  हिमाद्री बेटी जैसी हिमाद्री को लेकर दिल को देखों चेहरा न देखों गाना गाने वाले ज्ञान सिंह का कहना है कि राजनीति अलग बिषय है पर हिमाद्री हमारे समाज की है और मेरे लिए बेटी जैसी है। मैंने यह गाना उसके लिए नहीं बल्कि कांग्रेस के लिए गाया था। वे कहते हैं कि कांग्रेस इस चुनाव में मुद्दाविहीन थी। यही वजह है कि उसने इस गाने को मुद्दा बनाया और नोटबंदी पर कुप्रचार कर जनता को भ्रमित करने का प्रयास किया। जनता समझ चुकी, भाजपा सिर्फ घोषणा करती रही: हिमाद्री उधर हिमाद्री सिंह ने भी दावा किया है कि इस बार कांग्रेस यहां से हर हाल में जीतेगी। उन्होंने कहा कि चुनाव तो उन्होंने कई देखे हैं, लेकिन यह चुनाव खुद लड़ा। इसका अनुभव अलग रहा है। लोगों अभूतपूर्व सहयोग मिला है। युवाओं ने एक मित्र के रुप में मुझे देखा, तो वहीं बड़ों ने छोटी बहन और बेटी के रुप में मुझे आशीर्वाद दिया। इतना आशीर्वाद बेकार नहीं जा सकता। कांग्रेस कार्यकर्ता और नेताओं ने खुले मन से पार्टी के लिए प्रचार किया। यहां का विकास हमेशा कांग्रेस ने ही करवाया है, भाजपा सिर्फ घोषणा ही करती रही। जनता यह बात समझ चुकी है। इसलिए यहां पर कांग्रेस भारी मतों से जीतने जा रही है।  वहीं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव ने कहा कि भाजपा की करनी और कथनी को शहडोल लोकसभा क्षेत्र की जनता जान गई है। दोनों में अंतर उसे पता है। भाजपा सरकार ने काम किए नहीं और चुनाव के वक्त करोड़ों की घोषणाएं कर दी। इनसे कुछ नहीं होने वाला, जनता समझ चुकी की कांग्रेस ही क्षेत्र का विकास कर सकती है। इसलिए इस बार यहां पर कांग्रेस को भारी जनसमर्थन मिला है। नोटबंदी को लेकर गरीबों को हुई परेशानी भी बड़ा मुद्दा था, कालेधन के नकेल कसने के झूठे दिखावे के नाम पर गरीब जनता को पाई-पाई के लिए मोहताज केंद्र सरकार ने कर दिया था। जनता इन सब मुद्दों को लेकर भी केंद्र सरकार ने नाराज है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 November 2016

matdan

    नेपानगर विधानसभा उपचुनाव और शहडोल लोकसभा  में मतदान को लेकर लोग उत्साहित नजर आए। इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि सुबह सात बजे वोटिंग शुरू होने के दो घंटे के भीतर ही 16 फीसदी मतदाता वोट डाल चुके थे। वहीं अंबाडा के आदर्श मतदान केंद्र क्रं 198 में सुबह 11 बजे तक 45 फीसदी और भातखेड़ा में 40 फीसदी मतदान हुआ। विधानसभा क्षेत्र में 296 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। सभी केंद्रों को मिलाकर 4 बजे तक 70 फीसदी मतदान हुआ।शहडोल में वोटरों  स्वागत फूलों से हुआ। दोनों जगह ही शांतिपूर्ण और शानदार मतदान हुआ।  पांच मतदान केंद्रों से 5 से वेबकास्टिंग की जा रही है। 10 स्थानों पर आदर्श मतदान केंद्र बनाए गए हैं। भाजपा प्रत्याशी मंजू राजेंद्र दादु ने कान्हापुर में 189 नंबर केंद्र पर मतदान किया, वहीं कांग्रेस प्रत्याशी अंतरसिंह बर्डे ने ग्राम अम्बा में मतदान किया। सोनुद में केंद्र क्रमांक 191 की ईवीएम में खराबी की वजह से कुछ देर के लिए मतदान प्रभावित हुआ। विधानसभा क्षेत्र में कई मतदान केंद्रों पर सन्नाटा पसरा रहा, यहां इक्का-दुक्का मतदाता ही वोट डालने पहुंचे। भवानी नगर, उर्दू स्कूल के 4 केंद्रों पर यही हालात नजर आए।  ग्राम तुकईथाड में 50 लोगों के नाम मतदाता सूची में नहीं होने से लोगों में रोष गहराया। कांग्रेस ने मतदाताओं के नाम कटने की ऑनलाइन शिकायत चुनाव आयोग से की। जिसमें बीएलओ ज्योति महाजन के द्वारा जान बूझकर कांग्रेस समर्थित मतदाताओं के नाम काटे जाने की शिकायत की गई।मतदान केंद्र क्रमांक 58 हिंदी प्राथमिक शाला में ईवीएम मशीन खराब होने से मतदान प्रभावित हो गया, जिससे मतदाता परेशान हुए। सेक्टर अधिकारी इंजीनियर को लेकर पहुचे मौके पर पहुंचे और परेशानी दूर की गई। केंद्र सरकार के नेपा पेपर लिमिटिड से कार्य से हटाए गए करीब 200 श्रमिक, जो 51 दिन से क्रमिक भूख हड़ताल पर हैं और उनके 800 परिजनों सहित करीब 1000 लोग ने वोट डालने से इनकार कर दिया। मतदान केंद्रों पर हुआ मतदाताओं का स्वागत शहडोल लोकसभा उपचुनाव के लिए शनिवार सुबह सात बजे से मतदान शुरू हो गया। संसदीय क्षेत्र के शहडोल जिले की जयसियंहनगर व जैतपुर, उमरिया जिले की बांधवगढ़ व मानपुर, अनूपपुर जिले की पुष्पराजगढ़, अनूपपुर व कोतमा एवं कटनी जिले की बड़वारा विधानसभा क्षेत्र के 2070 मतदान केन्द्रों में 16 लाख 787 मतदाता मतदान करेंगे। 4 बजे तक शहडोल में कुल मतदान 50 फीसदी से ऊपर पहुंच गया। संसदीय क्षेत्र के कटनी में बड़वारा विधानसभा के आदर्श मतदान केंद्र में मतदाताओं का फूल माला पहनाकर स्वागत किया गया। आदर्श मतदान केंद्रों में वोटरों के लिए विशेष व्यवस्था की गई है। कांग्रेस विधायक सौरभ सिंह ने भी सुबह मतदान किया। कटनी में मतदान केंद्र क्रमांक 180, 57 में ईवीएम मशीन खराब होने के कारण बदली गईं। कटनी में कांग्रेस विधायक सौरभ सिंह से पुलिस ने कहा था कि आप चुनाव में व्यवधान उत्पन्न कर रहे हैं। इस पर विधायक ने कहा कि मैं व्यवधान उत्पन्न नहीं कर रहा हूं और अगर आप कहें तो में थाने आ जाता हूं। ऐसा कहकर विधायक सौरभ सिंह बड़वारा थाने पहुंच गए। पुलिस के अनुसार विधायक को हिरासत में नहीं लिया गया था। वे स्वयं वहां पहुंचे थे, करीब 20 मिनट रुकने के बाद वे वापस चले गए। उमरिया विधानसभा के बिजौरी गांव में 110 वर्षीय महिला रामरती ने भी मतदान किया। बड़वारा विधानसभा क्षेत्र के ग्राम देवरी हटाई में 101 वर्ष की महिला मतदान किया, महिला का नाम द्रोपति बाई है। वहीं सारंगपुर में मतदान करने पहुंची 103 वर्ष की महिला छोटी बाई मतदान करने पहुंची।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 November 2016

शहडोल लोकसभा और नेपानगर विधानसभा उप-चुनाव

शहडोल में 17 और नेपानगर में 4 उम्मीदवार के भाग्य का फैसला करेंगे मतदाता  2766 पोलिंग बूथ पर 4000 से अधिक ईव्हीएम  बैलेट यूनिट पर दिखेंगे प्रत्याशी के फोटो ,सुरक्षा के लिए तीस कम्पनी तैनात  मध्यप्रदेश के 12-शहडोल लोकसभा (अजजा) और 179-नेपानगर विधानसभा (अजजा) के उप-चुनाव के लिये शनिवार 19 नवम्बर को सबेरे 7 बजे से शाम 5 बजे तक वोट डाले जायेंगे। मतदान को लेकर सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किये गये हैं। शहडोल संसदीय क्षेत्र में 16 लाख 787 मतदाता हैं। इनमें 8 लाख 25 हजार 873 पुरुष, 7 लाख 78 हजार 489 महिला तथा 25 थर्ड जेंडर शामिल हैं। क्षेत्र के 18-19 आयु वर्ग के 41 हजार 750 युवा मतदाता भी पहली बार मतदान करेंगे। शहडोल एवं नेपानगर निर्वाचन क्षेत्र में सीएपीएफ (केन्द्रीय अर्द्ध सैनिक बल) और एसएएफ (राज्य विशेष सशस्त्र बल) की 15-15 कम्पनी तैनात की गयी हैं। दोनों क्षेत्र के वल्‍नरेबल पॉकेट में फ्लेग-मार्च किया जा रहा है। कानून-व्यवस्था बनाये रखने के लिये जिला पुलिस बल के 179 अधिकारी, 2431 आरक्षक, 1813 होमगार्ड तैनात किये गये हैं। ईव्हीएम की सुरक्षा के लिये सीएपीएफ की 2 कम्पनी तैनात की गयी हैं। प्रत्येक मतदान केन्द्र में 4 मतदानकर्मी तथा 2 पुलिस के जवान तैनात किये गये हैं। वल्नरेबल क्षेत्र में चिन्हित 86 मतदान केन्द्र में सीएपीएफ के 2-2 जवान सुरक्षा की जिम्मेदारी सम्हालेंगे। दोनों निर्वाचन क्षेत्र में 19 नवम्बर तक पुराने नोट बदलवाने वाले नागरिकों की उंगली में इनएडिबल स्याही नहीं लगायी जायेगी। मतदान दल को निर्वाचन सामग्री लेकर मतदान की पूर्व संध्या पर निर्धारित मतदान केन्द्र पर उपस्थित होने के निर्देश दिये गये हैं। मतदान टीमें रात्रि-विश्राम भी केन्द्र पर ही करेंगी। मतदान सामग्री के वितरण एवं परिवहन की व्यवस्था भी जिला मुख्यालयों पर की गयी है। शहडोल संसदीय क्षेत्र में 2070 मतदान केन्द्र में मतदान होगा। इनमें 300 शहरी तथा 1770 ग्रामीण क्षेत्र के हैं। इनमें से 385 क्रिटिकल मतदान केन्द्र हैं। मतदान के लिये 3700 ईव्हीएम (इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन) का इस्तेमाल होगा। ईव्हीएम पर प्रत्याशी के फोटो भी लगेंगे। शहडोल लोकसभा सीट के लिये 8 विधानसभा क्षेत्र में मतदान होगा, जिसमें 3 अनूपपुर, 2-2 शहडोल एवं उमरिया तथा कटनी जिले का एक विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र शामिल है। शहडोल लोकसभा उप-चुनाव के लिये 17 उम्मीदवार मैदान में हैं। इनमें 9 निर्दलीय उम्मीदवार भी हैं। नेपानगर विधानसभा उप-चुनाव के लिये 4 उम्मीदवार के भाग्य का फैसला होगा। निर्वाचन क्षेत्र में 2 लाख 30 हजार 420 मतदाता हैं। इनमें पुरुष एक लाख 18 हजार 659, महिला एक लाख 11 हजार 744 एवं 17 थर्ड जेंडर मतदाता हैं। युवा 18-19 आयु वर्ग के 3046 मतदाता हैं। क्षेत्र में 296 मतदान केन्द्र में से 29 शहरी तथा 267 ग्रामीण क्षेत्र में हैं। क्रिटिकल श्रेणी के 38 मतदान केन्द हैं। मतदान के लिये 386 ईव्हीएम उपलब्ध करवायी गयी हैं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 November 2016

शहडोल और नेपानगर उप-चुनाव

मध्यप्रदेश में शहडोल लोकसभा और नेपानगर विधानसभा उप-चुनाव को निष्पक्ष एवं शांतिपूर्वक निर्वाचन सम्पन्न करवाने के लिये दोनों क्षेत्र में कानून-व्यवस्था की स्थिति की नियमित समीक्षा की जा रही है। विगत 17 अक्टूबर को उप-चुनाव की घोषणा के साथ अब तक 3771 लायसेंसी शस्त्र जमा करवाये जा चुके हैं तथा 5 विस्फोटक सामग्री जप्त हुई है। निर्वाचन क्षेत्रों से अब तक 54 अवैध हथियार की बरामदगी की गई है। सीआरपीसी की विभिन्न धारा में अब 8866 व्यक्ति पर प्रतिबंधात्मक कार्रवाई तथा 4700 को बाउंड ओवर किया गया। बाउंड ओवर का उल्लंघन करने पर 6 व्यक्ति के विरूद्ध कार्रवाई की गई है। इसी प्रकार 3003 गैर-जमानती वारंट में से 974 की तामीली करवाई जा चुकी है। संबंधित निर्वाचन क्षेत्रों में सुरक्षा की दृष्टि से जिला प्रशासन, पुलिस और आबकारी विभाग के 51 नाका संचालित किये जा रहे हैं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 November 2016

शहडोल और नेपानगर में उपचुनाव 19 नवम्बर को

   शहडोल और नेपानगर में उपचुनाव की तारिख चुनाव आयोग ने घोषित कर दी है। 19 नवंबर को मतदान होगा और 22 नवंबर को मतगणना की जाएगी। चुनाव में उम्मीदवारों के नामांकन की आखिरी तारीख 2 नवंबर है। इसके साथ ही नामांकन वापस लेने की ता‍रीख 5 नंवबर है। शहडोल में संसदीय सीट पर उपचुनाव होने जा रहा है। दलपत सिंह परस्ते के निधन के बाद यह सीट खाली हुई थी। वहीं बुरहानपुर जिले में नेपानगर विधासभा सीट के लिए उपचुनाव होना है। गौरतलब है कि चुनाव की तिथियां घोषित होने से पहले ही राजनीतिक दलों के नेता दोनों स्थानों पर अपने दौरे कर रहे हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 October 2016

archna chitnis

महिला-बाल विकास मंत्री अर्चना चिटनिस  महिला-बाल विकास मंत्री अर्चना चिटनिस ने कहा है कि भारतीय परंपरा में विद्यमान सामाजिक मान्यताएँ लम्बे समय तक स्वास्थ्य संवर्द्धन में सहायक रही हैं। उन्होंने कुपोषण को दूर करने में आयुर्वेदिक प्रक्रियाओं के समावेश को जरूरी बताया। श्रीमती चिटनीस ने इसके लिए आयुष विभाग के साथ प्रभावशाली रणनीति तैयार करने के निर्देश दिए। श्रीमती चिटनिस आज मंत्रालय में विभागीय परामर्शदात्री समिति की बैठक को संबोधित कर रही थीं। बैठक में विधायक द्वय श्रीमती पारुल साहू केसरी तथा श्रीमती लोरेन बी लोबो ने भी सुझाव दिये।   बैठक में किशोरी बालिकाओं में एनीमिया निवारण को मिशन के रूप में लेने पर विचार-विमर्श हुआ। महिला-बाल विकास मंत्री ने किशोरी बालिकाओं को नियमित रूप से आयरन तथा विटामिन सी की गोली देने के लिए व्यवस्था करने को कहा।   श्रीमती चिटनिस ने कहा कि आँगनवाड़ियों में दिए जा रहे पोषण आहार के स्वाद और उसकी उपयुक्त समय पर उपलब्धता सुनिश्चित करवाना आवश्यक है। एकीकृत बाल विकास योजना के मुख्य सूचकांकों की समीक्षा करते हुए उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य तथा पोषण के संबंध में जागरूकता लाने और सही जानकारी लक्षित समूह तक पहुँचाने के लिए व्यापक स्तर पर अभियान चलाया जाए। प्रदेश में शीघ्र ही बाल-पर्व मनाने की शुरुआत की जायेगी। बैठक में स्नेह सरोकार कार्यक्रम, अटल बाल-मित्र योजना की भी समीक्षा हुई। महिला सशक्तिकरण के लिए संचालित योजनाओं का प्रस्तुतिकरण हुआ।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 August 2016

mp no 1

    मुख्यमंत्री ने  बाँटे पौने 9 करोड़     मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि राज्य सरकार सबका साथ-सबका विकास चाहती है। उन्होंने कहा कि योजनाओं का बेहतर क्रियान्वयन कर प्रदेश को देश का नम्बर वन स्टेट बनाया जायेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान बुरहानपुर जिले के खकनार विकासखण्ड के ग्राम नवारा में अंत्योदय मेले को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने विभिन्न योजनाओं के 5000 हितग्राही को करीब 8 करोड़ 75 लाख रुपये की सामग्री वितरित की।   मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि युवाओं को रोजगार के अधिक से अधिक अवसर उपलब्ध करवाने के लिये प्रतिवर्ष एक लाख युवा को बिना गारंटी का ऋण उपलब्ध करवाया जायेगा। उन्होंने कहा कि बिजली, सड़क और पेयजल के मामले में अन्य राज्यों की तुलना में मध्यप्रदेश में बेहतर स्थिति बनी है। श्री चौहान ने कहा कि ग्रामीणों को मकान बनाने के लिये भूमि के पट्टे दिये जायेंगे। उन्होंने कहा कि ताप्ती नदी पर दरियापुर के पास नया पुल बनाया जायेगा। नेपानगर में सड़क निर्माण के लिये 5 करोड़ रुपये उपलब्ध करवाये जायेंगे। खकनार विकासखण्ड मुख्यालय पर अनुसूचित-जाति, अनुसूचित-जनजाति के विद्यार्थियों के लिये 50-50 सीटर छात्रावास बनाये जायेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मेले में उज्जवला योजना के 5 हितग्राही को रसोई-गैस कनेक्शन भी वितरित किये।   अंत्योदय मेले में उज्जवला योजना में 531 रसोई-गैस कनेक्शन, 714 हितग्राही को एक करोड़ 5 लाख की आदान सामग्री, 133 हितग्राही को सामाजिक सुरक्षा पेंशन, कृषि और उद्यानिकी विभाग की योजना में 527 हितग्राही को ट्रेक्टर, केला टिश्यूकल्चर, ड्रिप इरीगेशन आदि के लिये राशि वितरित की गयी। श्री चौहान ने प्री-मेट्रिक बालक छात्रावास और शासकीय हाई स्कूल भवन मांडवा का लोकार्पण किया। उन्होंने करीब 4 करोड़ 22 लाख के 12 निर्माण कार्य का भूमि-पूजन और 5 करोड़ 64 लाख लागत के 2 शाला भवन का लोकार्पण किया। कार्यक्रम को सांसद नंदकुमार चौहान ने भी संबोधित किया। इस मौके पर पंचायत पदाधिकारी भी मौजूद थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 August 2016

सिंचाई रकबा 7.5 से बढ़कर 36 लाख हेक्टेयर हुआ

एमपी में बदल रहा है खेती का परिदृश्य मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रदेश में 10 साल पहले सिंचित रकबा मात्र 7 लाख 50 हजार हेक्टेयर था, जिसे बढ़ाकर 36 लाख हेक्टेयर किया गया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के फैसलों से प्रदेश में कृषि का परिदृश्य बदल रहा है और किसानों के हित में बड़े फैसले लिये जा रहे हैं। श्री चौहान सीहोर में 3-दिवसीय कृषि विज्ञान मेले की शुरुआत कर रहे थे। पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री गोपाल भार्गव, जिला प्रभारी और राजस्व मंत्री रामपाल सिंह तथा सांसद आलोक संजर इस मौके पर उपस्थित थे।मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि कृषि के लिये सबसे जरूरी पर्याप्त सिंचाई सुविधा उपलब्ध होना है। सीहोर और उसके आसपास के क्षेत्र में सिंचाई सुविधा बढ़ाने के लिये नर्मदा नदी को पार्वती, कालीसिंध और गंभीर नदी से जोड़ने के लिये डीपीआर बनने का काम शुरू हो गया है। योजना के पूरी होने पर पूरा क्षेत्र सिंचित होगा, कृषि उत्पादन और आधारित उद्योग बढ़ेंगे। इससे किसानों की आय भी बढ़ेगी।श्री चौहान ने कहा कि किसानों को दी जाने वाली बोनस राशि का उनके व्यापक हित में उपयोग किया जायेगा। इसके लिये सरकार एक नयी योजना बनाने जा रही है, जिसमें किसान खाद-बीज पर 100 रुपये की सामग्री लेगा तो उसे मात्र 90 रुपये लौटाने होंगे। पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री गोपाल भार्गव ने भी समारोह को संबोधित किया।जिला पंचायत भवन, पॉलीटेक्निक तथा विकलांग पुनर्वास केन्द्र का लोकार्पणमुख्यमंत्री चौहान ने सीहोर में 2 करोड़ 22 लाख रुपये की लागत से बने जिला पंचायत भवन का लोकार्पण किया। उन्होंने शासकीय महिला पॉलीटेक्निक महाविद्यालय के 14 करोड़ 85 लाख लागत से निर्मित भवन और 20 करोड़ 88 लाख की लागत के विकलांग पुनर्वास केन्द्र और 36 करोड़ 34 लाख की लागत के निर्माण कार्यों का भी लोकार्पण किया। श्री चौहान ने कृषि विज्ञान मेले में कृषि यंत्र प्रदर्शनी, कृषि गैलरी और कृषि कियोस्क का भी अवलोकन किया। उन्होंने मेले में सरकार की विभिन्न योजना के हितग्राहियों को लाभ-पत्र वितरित किये।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

लोकायुक्त छापा ,ढ़ाई करोड़ का बाबू

लोकायुक्त की संयुक्त टीम ने मंगलवार सुबह करीब 6 बजे महेश्वर जनपद पंचायत के क्लर्क पर शिकंजा कसा। अनुपातहीन संपत्ति की सूचना पर लोकायुक्त की अलग- अलग टीमों ने क्लर्क के महेश्वर, इंदौर और पैतृक गांव माचलपुर के घरों पर दबिश दी। प्रारंभिक छानबीन और सर्च में इसके पास ढ़ाई करोड़ से भी अधिक की संपत्ति होने का पता चला है। इस बात की तस्दीक मीडिया के सामने डीएसपी जीडी शर्मा ने की। लोकायुक्त की कार्रवाई जारी है।क्लर्क बाबूलाल पटेल जनपद पंचायत महेश्वर में सहायक ग्रेड 2 की पोस्ट पर है। लोकायुक्त की तीन टीमों ने मंगलवार सुबह एक साथ उसके तीनों घरों पर छापे मारे। मुख्य कार्रवाई महेश्वर में डीएसपी जीडी शर्मा के नेतृत्व में हुई। महेश्वर में डाक बंगला रोड पर इसके दो मकान हैं। दोनों मकानों पर लोकायुक्त टीम एक साथ पहुंची। इसके साथ ही रानीबाग के अनंतकृपा रेसीडेंसी में फ्लैट नं. 101 पर इंस्पेक्टर एसएस राघव और माचलपुर के पैतृक मकान पर डीएसपी एसएल कटारिया के नेतृत्व में टीम पहुंची।एसपी लोकायुक्त वीरेंद्रसिंह भी महेश्वर पहुंच चुके हैं। उन्होंने बताया कि प्रारंभिक और उसके घरों से मिले दस्तावेजों से पता चला है कि उसके पास पांच मकान (महेश्वर में तीन, माचलपुर में एक और एक इंदौर के रानीबाग में) हैं। चार प्लॉट हैं, जिनमें से एक मंडलेश्वर और तीन आईयूसी फॉम्र्स में। इसके अलावा खेती की जमीन खरीदे जाने के दस्तावेज भी मिले हैं जो उसने खरगोन जिले के खराड़ी, माचलपुर, बागदरा, दकनीपुरा, बंजारी गांव में खरीद रखी है। जमीन का कुल रकबा 33.9 एकड़ बताया जा रहा है।लोकायुक्त टीम जब पटेल के घर दस्तावेजों की जांच कर रही थी तो अफसर यह देखकर हैरत में पड़ गए कि 28 बैंकों में उसके खाते हैं। इन खातों में 14 लाख 73 हजार की रकम होने की जानकारी मिली है। घर से 67 हजार रूपए नकद और करीब 70 हजार के मूल्य का सोना-चांदी मिला है। बीमा पालिसियों में साढ़े चार लाख रूपए का निवेश भी सामने आया। घर पर एक स्कॉर्पियो और एक आल्टो कार के साथ तीन बाइक पाई गईं। इसके अलावा स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में एक लॉकर के दस्तावेज की जानक ारी भी मिली है। लॉकर को खुलवा कर जांच की जा रही है।आपको बता दें कि, बाबूलाल पटेल पिछले 13-14 सालों से महेश्वर में ही पदस्थ है। लोकायुक्त की यह कार्रवाई एक गोपनीय शिकायत के आधार पर की गई है। अभी क्लर्क के बैंक लॉकर, ऑफिस और बिल्डिंग मैटेरियल की दुकान पर कार्रवाई होना बाकी है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

मध्यप्रदेश के लिये नई रिजर्व बटालियन के गठन की मांग

मध्यप्रदेश में नई रिजर्व बटालियन का गठन किया जाए। एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दिल्ली में केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात के दौरान यह बात कही। केन्द्रीय श्रम मंत्री एवं ग्वालियर के सांसद नरेन्द्र सिंह तोमर भी इस अवसर पर उनके साथ थे। श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में नक्सल समस्या उन्मूलन के लिये 208वीं कोबरा वाहिनी तैनात थी जिसे अब हटा लिया गया है। अतः प्रदेश में एक नई रिजर्व बटालियन के गठन की आवश्यकता है। उन्होंने केन्द्रीय गृह मंत्री से रिजर्व बटालियन के गठन का आग्रह किया। केन्द्रीय गृह मंत्री श्री राजनाथ सिंह ने इस बात को सकारात्मक रूप से लेते हुए नेता द्वय को हरसंभव सहयोग का आश्वासन दिया।मुख्यमंत्री ने केन्द्रीय मंत्री से प्रदेश में कृषि विकास दर वृद्धि और किसानों को दिये जाने वाले बोनस की जानकारी देते हुए कहा कि बोनस से कृषि उत्पादन को बढ़ावा मिला है और मध्यप्रदेश के कृषक उत्साहित होकर राष्ट्रीय कृषि उत्पादन में अपना योगदान कर रहे हैं। उल्लेखनीय है कि मध्यप्रदेश में विगत तीन वर्ष से निरंतर प्रतिवर्ष 20 प्रतिशत की दर से कृषि उत्पाद में वृद्धि हो रही है।मुख्यमंत्री ने प्रदेश के किसानों की समस्याओं का उल्लेख करते हुए कहा कि वर्ष 2013 में अति वृष्टि और बाढ़ से मध्यप्रदेश में सोयाबीन की फसल को भारी क्षति पहुँची थी। इसके अलावा फरवरी-मार्च 2014 में अति वृष्टि और ओला वृष्टि के कारण प्रदेश के 51 जिले में से 49 जिले के 31 लाख 46 हजार किसान की फसलें खराब हुईं। उन्होंने केन्द्रीय गृह मंत्री को बताया कि कैसे राज्य ने अपने स्रोतों से किसानों को 2150 करोड़ रूपये से अधिक की सहायता वितरित की है। यह सहायता राशि किसानों के बैंक खातों में सीधे जमा की गयी। उन्होंने कहा कि आज प्रधानमंत्री एवं वित्त मंत्री से मुलाकात कर राज्य के लिये 5,963 करोड़ 22 लाख रूपये के पेकेज की मांग की है। उन्होंने केन्द्रीय गृह मंत्री से राज्य को कृषक हित में यह सहायता दिलवाने में सहयोग की अपील की है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

Video

Page Views

  • Last day : 2842
  • Last 7 days : 18353
  • Last 30 days : 71082
Advertisement
Advertisement
Advertisement
All Rights Reserved ©2017 MadhyaBharat News.