Since: 23-09-2009

  Latest News :
सिद्धू की पैरवी कर रही है प्रियंका गांधी.   काऊब्वॉय हैट पहन कर निकले कबूतर.   राहुल गाँधी :किसानों का कर्ज माफ होकर रहेगा.   RBI का अलर्ट अभी और बिगड़ेंगे आर्थिक हालात.   कर्नाटक विधानसभा उपचुनाव के नतीजे घोषित.   हैण्डलूम एक्सपोर्ट कार्पोरेशन ने भुगतान रोका.   कुदरत की मार ने तोड़ी किसानों की कमर.   कैब नागरिकता देने वाला कानून,लेने वाला नहीं.   अतिथि विद्वानों का सरकार के खिलाफ धरना.   बेमौसम बारिश से मंडी में रखी धान बर्बाद.   कार्यालयों से नदारद रहते है पंचायत सचिव.   मुख्यमंत्री के छिंदवाड़ा में शिक्षा विभाग के बुरे हाल.   दो युवतियों की जघन्य हत्या .   किसानो ने किया सीएम भूपेश बघेल का पुतला दहन.   युवक ने किया सरेआम महिला पर हँसिये से हमला.   दुष्कर्मी को पीटने कोर्ट परिसर में दौड़ीं महिलाएं.   ITBP जवान ने साथी पर की फायरिंग 6 की मौत.   नक्सली DKMS अध्यक्ष सन्ना हेमला हुआ सरेंडर.  

छिंदवाडा News


 KAMALNATH

सरकार तो पागल है कुछ भी नियम निकालती है   मुख्यमंत्री कमलनाथ के छिंदवाड़ा के एक स्कूल में राष्ट्रीय ध्वज न फहराए जाने का मामला सामने आया है | इस मामले में टीचर का एक वीडियो वायरल हो रहा है |  जिसमे टीचर कह रही हैं साकार तो पागल हैं  | कुछ भी नियम निकालती है  |  मुख्यमंत्री के ग्रह जिले छिंदवाड़ा में शिक्षा विभाग के हाल बेहाल हैं  | छिंदवाड़ा से  लगभग 22 किलोमीटर की दूरी पर  ग्राम खकरा चौरई स्कूल का मामला सोशल मीडिया में चर्चा का विषय बना हुआ है |  यहाँ की शिक्षिका  का कहना है सरकार तो पागल है , कुछ भी नियम निकालती है | शाला में रोजाना राष्ट्रीय ध्वज फहराने पर टीचर का यह नजरिया है  |  दरअसल  शासकीय माध्यमिक शाला खकरा चौरई में  रोजाना राष्ट्रीय ध्वज नहीं फहराया जाता है, इस संबंध में जब वहां पदस्थ शिक्षिका  रश्मि बरकड़े से जानकारी ली गई तो उन्होंने इस नियम के लिए सरकार को ही कोसना शुरू कर दिया उनका कहना था कि सरकार तो पागल है कुछ भी नियम निकालती हैं हालांकि बाद में उन्होंने इस बात को स्वीकार भी किया कि कक्षा आठवीं से 12वीं तक शाला में राष्ट्रीय ध्वज फहराना अनिवार्य है  |  टीचर  रश्मि बरकडे का कहना है कोई झंडा  फहराने उतारने वाला नहीं है और बच्चों से ऐसा नहीं करवाया जा सकता क्योंकि दुर्घटना का डर बना रहता है  राज्य शासन निर्णय लिया कि प्रदेश के सभी माध्यमिक हाई हायर सेकेंडरी स्कूल में प्रतिदिनअनिवार्य रूप से राष्ट्रीय ध्वज फहराया जाये  | इस संबंध में स्कूल शिक्षा विभाग ने निर्देश भी जारी किए है  |  इस मामले जिला शिक्षा अधिकारी अरविंद चौरागढे से बात करने के लिये उनके दफ्तर गए तो वह ऑफिस से नदारद मिले ,दूरभाष से बात करना चाहा तो उन्होंने फोन रिसीव करना उचित नही समझा |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 December 2019

 KAMALNATH

दबंगों ने किया एक परिवार का हुक्का पानी बंद कमलनाथ के छिंदवाड़ा मॉडल का सामाजिक सच   मुख्यमंत्री कमलनाथ जी  | यह खबर आपके लिए जानना जरुरी है   | आपके छिंदवाड़ा में दबंगों ने एक परिवार का हुक्का पानी बंद कर दिया है  | पीड़ित परिवार पुलिस के चक्कर लगा रहा है लेकिन उनकी सुनने वाला कोई नहीं है  |  आप अपने छिंदवाड़ा मॉडल की चर्चा कर अपनी पीठ खुद थपथपाते नजर आते हैं  |  ये उस मॉडल की कहानी है जो बताती है कि छिंदवाड़ा में भी सबकुछ ठीक नहीं है  |  मुख्यमंत्री कमलनाथ के इलाके छिंदवाड़ा में दबंगों का कहर एक परिवार पर टूटा है  | दबंगों ने इस परिवार का हुक्का पानी बंद कर दिया है  | कमलनाथ के ग्रह विकासखंड मोहखेड मुख्यालय रहने वाले एक परिवार को समाज के   ठेकेदारों द्वारा समाज से हुक्का-पानी बंद करने को लेकर पीड़ित परिवार ने पुलिस प्रशासन से गुहार लगाईं लेकिन दबंगों के आगे सिस्टम बौना नजर आया  |  तब पीड़ित परिवार ने जान सुनवाई में अपनी पीड़ा को प्रशासन के सामने रखा  | जनसुनवाई में पीड़ित परिवार की बेटियों ने न्याय की गुहार पुलिस अधीक्षक से की  |  पीड़ित परिवार ने बताया कि मोहखेड में निवास कर रहे एक समाज के  दबंगों  ने रिशतेदारी, गांव एंव समाज में यह फरमान जारी करा दिया है कि उनके परिवार के साथ कोई किसी प्रकार का सबंध न रखे. |  इस मामले को लेकर इस परिवार ने दो बार  पुलिस अधीक्षक एंव कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा  | लेकिन अब तक उन्हें न्याय नही मिल पाया. |  पीड़ित परिवार ने  एक बार फिर पुलिस अधीक्षक के नाम ज्ञापन सौपकर कहा कि इस बार उन्हें न्याय नही मिला तो वह  कलेक्टर कार्यालय के सामने परिवार सहित भूखहड़ताल करेंगे  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  27 November 2019

 SANJNA JAIN

कमल पुत्र नकुलनाथ  के आगे नतमस्तक कलेक्टर   मध्यप्रदेश में अफसरशाही के बुरे हाल हैं  | कहीं अफसर मंत्री के पैरों में नजर आ रहे हैं तो कहीं कलेक्टर |  मुख्यमंत्री कमलनाथ के बेटे नकुल के आगे नतमस्तक नजर आ रहे हैं  | हर अफसर अपनी सैटिंग में लगा हुआ  है  | और जो अधिकारी नेताओं  को सही गलत बता दे उसे तबादले की गाज झेलना पड़ रही है  |  कमलनाथ जी आपके बदलते हुए मध्यप्रदेश में इन दिनों अजब गजब नज़ारे देखने को मिल रहे हैं |  हाल ही में आपने देखा था कि कमलनाथ के मंत्री प्रद्दुम्न सिंह तोमर आपने से आयु में तीन साल छोटे  कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया को साष्टांग दंडवत कर रहे हैं  |  इससे पता चलता है कि अपना पद बरकरार रहे उसके लिए लोग क्या क्या नहीं कर सकते  | मंत्री प्रधुम्न सिंह के बाद अब देवास नगर निगम कमिश्नर संजना जैन का पैर पड़ने का वीडियो सामने आया है  नगर निगम कमिश्नर संजना जैन का गुरुनानक जयंती के कार्यक्रम में पीडब्ल्यूडी मंत्री सज्जन वर्मा से सामना हुआ  तो देखिये कमिश्नर साहिबा  |  ने कैसे मंत्री जी के पैर पड़े | इससे जाहिर है सरकार कैसे चल रही है जहाँ अधिकारी मंत्रियों और नेताओं के सामने शरणागत और चारणागत हो रहे हैं |  ऐसा लगत है इस समय मध्यप्रदेश में कहीं नतमस्तक होकर तो कहीं चरणागत होकर काम निकलने की ट्रिक अफसर सीख गए हैं  | या फिर डर के कारण अफसरों का यह हाल  है | इस मामले में पहले मंत्री सज्जन वर्मा का पक्ष जान लेते हैं उनसे जब इस बारे में पूछा गया तो काफी देर तक वो सोच में पड़ गए और फिर उन्होंने जवाब दिया |  अधिकारी जब सार्वजानिक रूप से मंत्री और नेताओं के पैरों में नजर आएं तो विपक्ष को बैठे बिठाये एक मुद्दा मिल गया है  | सांसद महेंद्र सिंह सोलंकी ने कहा  अधिकारी  कानून नियम प्रोटोकॉल तोड़ कांग्रेस नेताओं के शरणागत हो गए हैं |   निगमायुक्त ही नहीं कलेक्टर एसपी भी हैं मंत्री के पैरों में  हैं | अधिकारियों ने अपने पद की गरिमा ही गिरा दी है  |  मध्यप्रदेश में असफरशाही के कारण लोकतंत्र भी शर्मा रहा है  |  ऐसा लगता है इन अधिकारीयों  का सोचना है शरण में नहीं  जाएंगे  तो पद से हटा दिए जाएंगे  |  अब इस तस्वीर को देखिये |  ये तस्वीर मध्यप्रदेश की नौकरशाही की झुकी कमर का हाल बता रही है  |  छिंदवाड़ा कलेक्टर जो खुद एक  सीनियर IAS हैं  मुख्यमंत्री कमलनाथ के उद्योगपति संसद पुत्र नकुल नाथ के आगे झुके जा रहे हैं |  सरकार के आगे नतमस्तक इन अधिकारीयों के कारण जहाँ मध्यप्रदेश जग हंसाई का पात्र बनता है  | वहीँ इस पर जमकर राजनीति भी होती है |       

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 November 2019

 ADM , ADESH

कोई भी सीधे मिल सकता है इस अधिकारी से   छिंदवाड़ा में एक अधिकारी ऐसा भी है जिससे कोई भी सीधे बिना अनुमति के मिल सकता है  | राजेश शाही नाम के अपर कलेक्टर ऐसे पहले अधिकारी हैं  जिन्होंने अपने दफ्तर के बाहर लिख रखा है | हमारी उपलब्धता आपके ही लिए है और मिलने के लिए किसी अनुमति की आवश्यकता नहीं है  ...   मध्यप्रदेश में अफसरों से मिलना और अपने जायज काम  को करवाना भी एक टेढ़ा काम माना जाता है |  अधिकाँश अफसर तो लोगों से मिलने से ही कतराते हैं  | आम लोग अफसरान से मिलने तक के लिए नेताओं और बिचौलियों की मदद लेते हैं  |  ऐसे में छिंदवाड़ा जिले में अपर कलेक्टर राजेश शाही के केबिन के बाहर लगा बोर्ड चर्चा का विषय बना हुआ है |  बोर्ड पर लिखा है कि हमारी उपलब्धता आपके लिए ही है, इसलिए मिलने के लिए किसी की भी अनुमति लेने की जरुरत नहीं है. | आमतौर पर देखा जाता है कि सरकारी अफसर से मिलने के लिए समयसीमा का बोर्ड लगा रहता है |  लेकिन  अपर कलेक्टर राजेश शाही और अफसरों से बिलकुल अलग हैं |   ये बोर्ड अपर कलेक्टर राजेश शाही ने अपनी समस्या लेकर आने वाले आम लोगों के लिए लगाया है | राजेश शाही हमेशा ही आम जनता के कामों को तरजीह देते हैं, इसके पहले भी वे जमीन पर बैठकर लोगों की समस्या सुनते नजर आए थे और अब फिर से अपने केबिन के बाहर इस तरह का बोर्ड लगाने के बाद काफी चर्चा में है |     

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 November 2019

 KAMALNATH

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ली  सेल्फी पॉइंट पर सेल्फी   मुख्यमंत्री कमलनाथ सोमवार को अलग ही अंदाज में नजर आए  |  वो सुबह अचानक छिंदवाड़ा में बनाए गए सेल्फी प्वाइंट पर पहुंचे और सेल्फी ली  | इस दौरान प्रभारी मंत्री सुखदेव पांसे भी उनके साथ थे  |  एक कार्यक्रम में शामिल होने के बाद वो अचानक नगर निगम द्वारा बनाए गए सेल्फी प्वाइंट पर पहुंचे और अपनी सेल्फी ली  |  सेल्फी लेना भी एक आर्ट है  |  छिंदवाड़ा में मुख्यमंत्री कमलनाथ सेल्फी पॉइंट पर पहुंचे और और अपनी सेल्फी ली  |  जहां सीएम कमलनाथ खुद को कैमरे में कैद कर रहे थे |   वहीं मौके पर खड़े कुछ लोगों ने ऐसा करते हुए उनकी तस्वीरें खींच ली  |  छिंदवाड़ा में नगर निगम कमिश्नर इच्छित गढ़पाले की कोशिशों के चलते ये सेल्फी प्वाइंट बनाया गया है |   जहां लोग आकर सेल्फी ले रहे हैं  | मुख्यमंत्री भी आज यहाँ खुद को कैमरे में कैद करने से रोक नहीं पाए  | इससे पहले रविवार को मुख्यमंत्री कमलनाथ जिला कांग्रेस की संगठनात्मक बैठक में पहुंचे थे |  जहां उन्होंने साफ किया कि, "अब तक प्रदेश में 21 लाख किसानों का कर्जा माफ हो चुका है  | अकेले छिंदवाड़ा जिले में ही एक लाख से ज्यादा किसानों को कर्जमाफी का फायदा मिला  | उन्होंने फिर से दोहराया कि प्रदेश के एक-एक किसान का कर्जा माफ होगा  |  वहीं उन्होंने बढ़ती बेरोजगारी को लेकर भी चिंता जताई  |                 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 October 2019

 KAMALNATH

मेग्निफिसेंट मध्यप्रदेश दिखावे के लिए नहीं   मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि देश में मंदी के दौर का केंद्र सरकार को अनुभव करना होगा तभी वह इस मंदी से देश को बाहर निकाल पाएगी |  मुख्यमंत्री कमलनाथ ने छिंदवाड़ा में केंद्र की मोदी सरकार से कहा की उसे मंदी का अनुभव करना होगा तभी वह मंदी से निपट पाएगी  | इंदौर में होने वाले औद्योगिक घराने के सम्मेलन मैग्निफिसेंट मध्यप्रदेश को लेकर   मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि यह पिछली सरकारों के द्वारा दिखावे के लिए किए गए  आयोजनों जैसा नहीं है |   यह सम्मेलन मध्यप्रदेश में निवेशकों के लिए है जो यहां पर रोजगार के अवसर पैदा कर सकें   |  साथ ही मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि झाबुआ उपचुनाव में कांग्रेस की जीत निश्चित है | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 October 2019

भारिया

भारिया परिवारों के पक्के आवास बनेंगे और भारिया भाषा शिक्षक नियुक्त किये जायेंगे  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश के सभी भारिया परिवारों को बिना जमीन के नहीं रहने दिया जायेगा।  भारिया परिवार बरसों से जिस जमीन पर काबिज़ है, उन्हें उसका मालिकाना हक दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि वन भूमि पर वर्षों से काबिज भारिया परिवार को भी नहीं हटाया जायेगा। ऐसे परिवारों को भूमि का  पट्टा देने के लिये विशेष अभियान चलाया जायेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज छिन्दवाड़ा जिले के पातालकोट क्षेत्र के ग्राम रातेड़ में भारिया महासम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। अध्यक्षता अनुसूचित जाति कल्याण और जनजातीय कार्य राज्य मंत्री श्री लाल सिंह आर्य ने की।  मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि वन अधिकार अधिनियम में जिन भारिया परिवारों को भूमि आवंटित की गई है, उनके खेतों में कुओं का निर्माण कराया जायेगा। साथ ही परिस्थिति अनुसार मोटर या डीजल पम्प उपलब्ध करवाया जायेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी भारिया परिवारों के आगामी 2 वर्षों में पक्के मकान बनाये जायेंगे। भारिया भाषा को संरक्षित करने के लिये 18 भारिया भाषायी शिक्षक नियुक्त किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि भारिया संस्कृति को अक्षुण्ण रखने के लिये छिन्दवाड़ा में भारिया सांस्कृतिक केन्द्र स्थापित किया जायेगा। मुख्यमंत्री ने भारिया समाज के लोगों से कहा कि वे अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा दिलाकर उन्हें आगे बढ़ने के लिये प्रेरित और प्रोत्साहित करें। उन्होंने कहा कि आज का समय कम्प्यूटर का है और कम्प्यूटर रोजगार का जरिया है, इसलिये बच्चों को कम्प्यूटर में प्रशिक्षित किये जाने के लिये छिन्दवाडा में एक कम्प्यूटर प्रशिक्षण केन्द्र खोला जायेगा। आई.टी.आई. में भी भारिया बच्चों को विभिन्न व्यवसाय का प्रशिक्षण देकर उनके कौशल को बढ़ाया जायेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि यह महासम्मेलन भारिया जनजाति की जिदंगी बदलने का प्रयास है। उन्होंने कहा कि सभी भारिया बस्तियों में दीपावली तक बिजली पहुँचा दी जायेगी। उन्होंने   भारिया बच्चों के लिये एकलव्य आवासीय विद्यालय खोलने की घोषणा भी की। उन्होंने कहा कि भारिया परिवारों के बच्चों को पहली से लेकर पी.एच.डी. तक निःशुल्क शिक्षा दी जायेगी। उन्होंने भारिया युवाओं से कहा कि वे अपनी क्षमताओं का प्रकटीकरण करें। मुख्यमंत्री ने कहा कि भारिया आदिवासियों की एक स्वस्थ परम्परा है जिसे अक्षुण्ण रखने का प्रयास राज्य शासन द्वारा किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि 12वीं कक्षा तक पढ़ने वाली भारिया बालिकाओं को एन.एम.ए. का प्रशिक्षण देकर उन्हें स्वास्थ्य सेवा के कार्य में लगाया जायेगा। भारिया बहुल क्षेत्र में भारिया आदिवासियों का स्वास्थ्य परीक्षण किया जायेगा तथा गंभीर रोग से पीड़ित होने पर निःशुल्क उपचार किया जायेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि मध्यप्रदेश में अब असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों का पंजीयन कर उन्हें विभिन्न सुविधाएँ उपलब्ध कराई जायेगी। उन्होंने कहा कि अचार, चिरौंजी और महुआ खरीदी के लिये लघु वनोपज खरीदी केन्द्र खोले जायेंगे। महुआ 30 रूपये एवं अचार गुठली 150 रूपये प्रति किलो की दर पर खरीदी जायेगी। उन्होंने कहा कि पातालकोट क्षेत्र की भारिया बहनों के बैंक खाते में प्रतिमाह एक हजार रूपये जमा किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि पातालकोट क्षेत्र की सभी बस्तियों में नल-जल योजना की व्यवस्था की जायेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने 36 करोड 98 लाख 35 हजार रूपये के कार्यों का लोकार्पण और भूमिपूजन कर 7 भारिया युवाओं को पुलिस में आरक्षक के पद पर सीधी भर्ती के नियुक्ति पत्र प्रदान किये। उन्होंने लाडली लक्ष्मी योजना के प्रमाण-पत्र के साथ ही उज्जवला गैस योजना के कनेक्शन भी वितरित किये। मुख्यमंत्री ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाले नर्तक दल को 25 हजार की नगद प्रोत्साहन राशि भी प्रदान की। सम्मेलन में भारिया विकास प्राधिकरण की अध्यक्ष श्रीमती उर्मिला भारती, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती कांता ठाकुर, विधायक सर्वश्री नत्थनशाह कवरेती, चौधरी चन्द्रभान सिंह, पं.रमेश दुबे एवं नानाभाऊ मोहोड, नगर पंचायत अध्यक्ष श्री नरेन्द्र परमार, श्री उत्तम ठाकुर और श्री रमेश पोफली भी उपस्थित थे।    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 April 2018

बीजेपी नेता की गोली मारकर हत्या

छिंदवाड़ा जिला कोर्ट परिसर में पेशी पर आए भाजपा नेता मोहम्मद इखलाक की प्रशांत साहू और उसके तीन साथियों ने गोली मारकर हत्या कर दी। मामला गैंगवार का बताया जा रहा है। घटना के बाद शहर में तनावपूर्ण स्थिति बनने के बाद जगह-जगह पुलिस बल तैनात किया गया है। जानकारी के मुताबिक भाजपा के पूर्व अल्पसंख्यक मोर्चा अध्यक्ष मोहम्मद इखलाक पर शिवसेना नेता नरेंद्र पटेल पर प्राणघातक हमला करने का आरोप लगा था। इसी मामले में पुलिस उसे पेशी के लिए दोपहर एक बजे कोर्ट लेकर पहुंची। जैसे ही वे पीछे के गेट से अंदर घुसे इस दौरान वहां मौजूद प्रशांत साहू और उसके साथियों ने इखलाक पर तीन गोलियां चलाई, जिससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई। कोर्ट परिसर में हुई इस घटना के बाद अफरा-तफरी का माहौल हो गया। हत्या की खबर जैसे ही शहर में फैली माहौल तनावपूर्ण हो गया। इखलाक के शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल लाया गया है, जिसके बाहर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात है। उधर एहतियातन शहर में दुकानें बंद करवा दी गई हैं। पुलिस अगर थोड़ी सी सतर्कता बरतती तो इस घटना को रोका जा सकता है। जब इखलाक पर हमला हुआ तो गोली चलाने वाला कोर्ट परिसर के अंदर उसके पास खड़ा था। इससे सुरक्षा पर सवाल खड़े होने लगे हैं, आखिर कोर्ट परिसर में हथियार लेकर कोई कैसे घुस गया।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 August 2017

bank amit syahi

  राज्य निर्वाचन आयुक्त  आर. परशुराम ने जानकारी दी है कि विभिन्न व्यावसायिक बैंकों द्वारा माँग के अनुसार अमिट स्याही उपलब्ध करवायी गयी है। श्री परशुराम ने जिला अनूपपुर, शहडोल, उमरिया, बुरहानपुर एवं कटनी को छोड़कर शेष सभी जिला कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारियों को बैंकों को माँग अनुसार अमिट स्याही उपलब्ध करवाने के निर्देश दिये हैं। अमिट स्याही का मूल्य 120 रूपये प्रति बाटल है।      

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 November 2016

Video

Page Views

  • Last day : 5596
  • Last 7 days : 32148
  • Last 30 days : 146931
All Rights Reserved ©2019 MadhyaBharat News.