Since: 23-09-2009

  Latest News :
जनता कांग्रेस ने कलेक्टर को लिखा पत्र.   मोदी जहां जाते हैं झूठ बोल कर आते हैं.   मोदी:इस बार की दिवाली बेटियों को समर्पित.   मायावती अपनाएंगी बौद्ध धर्म.   व्यापारी हो रहे हैं लामबंद.   समुद्र तट पर PM मोदी का स्वच्छता अभियान.   पार्षदों ने जताया विरोध ,दर्ज करवाईं आपत्तियां.   मध्यप्रदेश रियल एस्टेट नीति में बदलाव.   लहसुन से भरे ट्रक में लगी आग.   राहुल ने एमपी का भाषण महाराष्ट्र में दिया.   ब्लास्ट से टूटा पत्थर कार में घुसा,चालक की मौत.   हनी ट्रैप मामले में मंत्री ने महिलाओं को बताया दोषी.   शरदपूर्णिमा पर बंटी जड़ीबूटी वाली खीर.   लखमा ने की रमन सिंह के नार्को टेस्ट की मांग.   झीरम घाटी कांड लखमा की भूमिका की जाँच हो.   इनामी नक्सली माड़वी गंगी ने किया समर्पण.   खाई में गिरी बस पेड़ से टकरा कर रुकी.   पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में हुआ एक नक्सली ढेर.  

देवास News


 ACCIDENT

देवी विसर्जन के लिए गए थे सभी बच्चे   देवास जिले के सोनकच्छ में  खजुरिया कनका  तालाब में डूबने से 5 बच्चों की मौत हो गई  |  ये सभी बच्चे 13 और 14 साल के थे   | ये बच्चे देवी विसर्जन के लिए गए थे और अचानक गहरे पानी में चले जाने से यह हादसा हो गया  |  सोनकच्छ से सात किमी दूर खजुरिया कनका के तालाब में डूबने से 5 बच्चों की मौत हो गई  | बताया जा रहा है कि माता की प्रतिमा का विसर्जन के लिए ये बच्चे तालाब में गए थे  |  लेकिन अधिकारियों का कहना है कि बच्चे तालाब में स्नान करने के लिए गए थे, यह प्रतिमा विसर्जन करने के दौरान हुआ हादसा नहीं है  | सभी की उम्र 13 से 14 वर्ष बताई जा रही है, जिसमें से दो सगे भाई है  |  बताया जा रहा है कि अभी कुछ और बच्चे पानी में डूबे हो सकते हैं जिन्हें तलाशा जा रहा है  |   पुलिस भी मौके पर पहुंच चुकी है  |  घटना के बाद वहां मौजूद दूसरे बच्चों ने तुरंत इसकी सूचना ग्रामीणों को दी, जिसके बाद ग्रामीण यहां पहुंचे और बच्चों को बाहर निकाला, लेकिन तब तक उनकी मौत हो चुकी थी  |  ग्रामीणों ने इस बात की सूचना पुलिस को भी दे दी, जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और बच्चों के शवों को अस्पताल ले जाया गया  | घटना की जानकारी मिलने के बाद कलेक्टर श्रीकांत पाण्डे, एसपी चंद्र शेखर सोलंकी   शासकीय अस्पताल पहुंचे  |  दशहरे के त्योहार के दिन हुए इस बड़ी दुर्घटना से पूरे गांव में मातम छा गया है  | बताया जा रहा है कि दूसरे बच्चों की सूचना के बाद के ग्रामीण तालाब में उतरे और एक-एक करके बच्चों की लाश बाहर निकाली  |  अचानक दशहरे की खुशी गम में बदल गई  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  8 October 2019

 CISF

बैंक नोट प्रेस के ग्राउंड पर चल रही सीआईएसएफ की भर्ती में एक युवक की दौड़ के दौरान   मौत हो गई। युवक का नाम भूरा सिंह बताया जा रहा है यहाँ  आलीराजपुर का रहवासी है |   आशंका जताई जा रही है कि दौड़ के समय उसे हार्ट अटैक आया था।  ओर सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और   उसके पार्थिव शरीर को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया । पुलिस ने  इस  मामले की जांच शुरू कर दी |     

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 August 2019

  MAARPIT

 गुंडों ने युवक को पेड़ से बांधकर  पीटा   गृहमंत्री बाला बच्चन जी यह खबर सिर्फ आपके लिए है   मध्यप्रदेश में वक्त बदला और सत्ता बदला गई  लेकिन इस दौरान गुंडे बदमाशों के हौंसले इस कदर बुलंद हो गए कि गुंडों ने सरेआम फ़िल्मी अंदाज में एक युवक के पैरों में रस्सी बांधकर उसे सड़क पर घसीटा और जब इतने से भी मन नहीं भरा तो उसे पेड़ से बांधकर पीटा गया  आपके सिस्टम और पुलिस का ऐसे लोगों को कोई  खौफ नहीं हैं   गृह मंत्री बाला बच्चन जी जनता ने इस बदलाव के लिए तो आपको कतई नहीं चुना है  अगर ये  बदलाव  है तो  बड़ा ही  बेरहम  है   रुपए के लेन-देन को लेकर  बुधवार की शाम उज्जैन रोड स्थित इटावा में एक युवक के साथ कुछ  गुंडों  ने जमकर मारपीट की  देख लीजिये इन तस्वीरों को  एक युवक को रस्सी से बांध कर सरेआम सड़क पर घसीटा  जा रहा है   आपकी पुलिस को इस गुंडागर्दी की भनक तक नहीं लगी  लोग भी आदतन तमाशबीन बने रहे  खबर है कि  राजेंद्र का इन गुंडों से पैसे का लेनदेन था  हालाँकि राजेंद्र किसी भी किस्म के लेनदेन से मन कर रहा हैं   बहरहाल लोगों में टैरर पैदा करने के लिए  इन गुंडों ने राजेंद्र को सड़क पर घसीटा और फिर सड़क किनारे लगे एक पेड़ से बांधकर उसकी जमकर पिटाई लगाई  कुछ जागरूक लोगों ने पुलिस को इस गुंडागर्दी की  सूचना  दी  तब पुलिस मौके पर पहुंची  तो गुंडों ने पुलिसकर्मियों के साथ भी धक्कामुक्की की  जैसे तैसे इस युवक को बचाकर अस्पताल पहुँचाया गया    गृह मंत्री बाला बच्चन जी आपको जानकर आश्चर्य होगा कि यह सारा घटनाक्रम पुलिस चौकी के पास का है  आपकी पुलिस मौके पर पहुंची लेकिन एक भी बदमाश को पकड़ नहीं पाई  सारे गुंडे पुलिस को अंगूठा दिखाकर चलते बने  घटना के बाद रात में भारी पुलिस बल  ने इन गुंडों के घरों पर  दबिश दी  और इन्हें पकड़कर इनका  जुलूस निकाला    पुलिस ने 15 लोगों के खिलाफ प्राणघातक हमले, बलवा सहित अन्य धाराओं में केस दर्ज किया है   घटना की जानकारी जब सभी को हो गई तब सीएसपी अनिल सिंह   जिला अस्पताल पहुंचे व घायल राजेंद्र से जानकारी ली   राजेंद्र के एक पैर में फ्रेक्चर हुआ है और उसे कई चोटें लगी हैं   इन गुंडों का इलाके में आतंक है  राजेंद्र को सड़क पर घसीटने और पेड़ से बांधकर मारने के बाद गुंडों ने राजेंद्र की जेब में चाकू रखकर उसे फ़साने की कोशिश की  बाला बच्चन जी अगर ये बदलाव है तो जनता आपसे भरपाई  आप कुछ ऐसा बदलाव कीजिये कि गुंडे बदमाश सर उठाने की हिमाकत भी न कर सकें  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 August 2019

 kheti

कमल नाथ के राज की सबसे दुखदायी तस्वीर  बेटी बनी बैल और मां जोत रही है खेत  किसानों के साथ सरकारी छलावे का पूर्ण सत्य  मध्यप्रदेश को शर्मसार करती खबर    मुख्यमंत्री कमलनाथ जी ये आपके राज की सबसे ज्यादा दुखदायी तस्वीर है  ये तस्वीर आपके उन तमाम दावों की पोल खोलती है जो आप किसानों के लिए करते हैं  यह तस्वीर बताती है कि आपने पिछले छह महीनों में  सिवाए तबादलों के ऐसा कुछ नहीं किया ,जिसकी प्रशंसा की जाए  अगर आपकी सरकार ने कुछ किया होता तो  कम से कम एक गरीब महिला किसान को अपनी बिटिया को हल में बैल की जगह नहीं जोतना पड़ता    आँख खोल लीजिये महानुभाव मुख्यमंत्री कमलनाथ  ये तस्वीर आपके राज्य मध्यप्रदेश की है  अगर ये तस्वीर किसी और राज्य की होती तो आपकी पार्टी  अब तक पिल पड़ी होती  एमपी के किसानों ने बदलाव के लिए कांग्रेस की लंगड़ी सरकार इसलिए बनवाई थी कि शायद किसान का कुछ भला हो सके लेकिन ये क्या आपके तबादला मई सुशासन में  तो  एक महिला किसान को खेत जोतने के लिए हल में बैल की जगह अपनी बेटी को लगाना पड़ रहा है  अगर आपकी सरकार यही करने वाली थी तो आप धन्य है   फिर आपसे पहले वाले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह में कौन सी बुराई थी   खेती को लाभ  का धंधा बनाने  का दावा करने वाले  पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह को लोगों ने सत्ता से इसलिए दूर किया था कि नई सरकार कुछ नया करेगी  कमलनाथ जी जनता ने आपको नहीं चुना लेकिन आप मुख्यमंत्री बन गए   कांग्रेस ने किसानों के लिए कई किस्म के वादे किये  लेकिन क्या हुआ महाराज सत्ता में आते ही आप उस आखिरी व्यक्ति की सुध लेना ही भूल गए  लगता है आपके  आपके मंत्रियों और अफसरों के ऐसी दफ्तरों में इस तरह की जानकारियों पहुँच ही न पाती हों  तो आप जान लीजिये  मध्यप्रदेश के देवास जिले के  कन्नौद तहसील के ग्राम भिलाई में अपने परिवार का पालन-पोषण करने के लिए माँ-बेटी मिलकर खेत  जोत रही हैं   अपनी फसल में उगे अनावश्यक घास के सफाये के लिए किसान माँ को अपनी बेटी को बैल बनाना पड़ा   अगर ये कमलनाथ राज का सुशासन है तो लानत है इस पर   कन्नौद के  भिलाई के पठार पर आदिवासी एवं अन्य परिवार के करीब 25 घर हैं   इन्ही के बीच कारीबाई बारेला भी रहती हैं जो अपने पति की  मौत के बाद अपनी जमीन पर मक्का एवं मूंगफली  उगाकर परिवार का पालन पोषण कर रही हैं  सरकारी सुविधा का आलम ये है की बैल नहीं तो बच्चों को इस काम में लगाना पड़ रहा है  ख़ैर सरकार को इससे क्या भोपाल में बैठकर सरकार के प्रवक्ता योजनाओं और वादों की ऐसी जुगाली करते हैं  कि मध्यप्रदेश का सच भोपाल के मंत्रालय के गलियारों तक आते आते ही दम तोड़ देता है     

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 July 2019

PARESHAN MARIJ

तीन  महीनों में तीन  बीएमओ के हुए ट्रांसफर   देवास के  सोनकच्छ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की हालत खस्ता है  सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में 4 डॉक्टर पदस्थ हैं  लेकिन मरीजों को उपचार के लिए इधर उधर भटकना पड़ रहा है  कांग्रेस सरकार आने के बाद यहाँ  3 बीएमओ का ट्रांसफर हो चुका है  लेकिन यहाँ मरीजों को सुविधा मिले इसमें किसी की रूचि  नहीं है  इस इलाके से पी डब्ल्यू डी मंत्री सज्जन वर्मा नेता हैं   सोनकच्छ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की तबियत खराब है   कहने को यहाँ चार डॉकटर पदस्थ हैं लेकिन  स्वास्थ्य केंद्र में मिलता कोई नहीं   मरीज को उपचार के लिए इधर उधर भटकना पड़ता  है   स्वास्थ्य केंद्र में डॉक्टर उपलब्ध न होने से रोगियों को दीगर अस्पतालों में जाना पड़ता है   यहाँ पुलिस केस एमएलसी के  मरीजों को बहार रेफर करना पड़ता है  सोनकच्छ से कांग्रेस के बड़े नेता सज्जन सिंह वर्मा सरकार में पी डब्ल्यू डी मंत्री हैं   लेकिन वह अपने इलाके की व्यवस्था को ही दुरुस्त नहीं कर पा रहे हैं  उनके इलाके का अस्पताल एक बाबू के भरोसे चलता है    इलाके के लोग कहते हैं पहले यहाँ थोड़ी बहुत सुविधाएँ मिल भी जाती थीं   लेकिन अब इलाके के अस्पताल भगवान् भरोसे हैं   डॉक्टर्स का जब मन करता है तब आते हैं और जब इच्छा हो चले जाते हैं   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 July 2019

इंद्रा विश्नोई देवास से हुई गिरफ्तार

राजस्थान के भंवरी देवी हत्याकांड में 6 साल से फरार आरोपी इंद्रा विश्नोई को राजस्थान एटीएस ने एमपी के देवास के पास नर्मदा तट से गिरफ्तार कर लिया। इंद्रा पर 5 लाख रुपए का इनाम था और भंवरी देवी की हत्या में आरोपी बनाए जाने के बाद वह फरार हो गई थी। तभी से पुलिस को उसकी तलाश थी। जानकारी के मुताबिक उसने नदी के किनारे ही उसने एक घर बना लिया था, वहीं वो एक सामान्य महिला की तरह रहती थी। फरारी के बाद से उसने मोबाइल फोन और अपने एटीएम का प्रयोग भी नहीं किया था। इंद्रा विश्नोई ने ही अपने भाई और पूर्व विधायक मलखान सिंह और पूर्व मंत्री महिपाल मदेरणा के साथ मिलकर भंवरी देवी की हत्या की साजिश रची थी। भंवरी के मलखान और महिलपा के साथ संबंध थे। इस दौरान उसकी एक बेटी भी हुई और उसका कहना था कि यह मलखान की बेटी है। भंवरी ने इसके लिए उससे पैसे मांगना शुरू कर दिए। जिसके बाद इन सभी ने मिलकर उसे मारने का षडयंत्र रचा। 2011 में भंवरी देवी का अपहरण कर उसकी हत्या कर दी गई थी।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 June 2017

तेन्दुए के शिकारी

वन विभाग की टाइगर स्ट्राइक फोर्स ने देवास जिले के कुसमानिया गाँव से तेन्दुए की खाल के साथ दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। विभाग को मिली सूचना के आधार पर होशंगाबाद और इंदौर की क्षेत्रीय स्ट्राइक फोर्स ने संयुक्त रूप से कार्यवाही करते हुए खाल के साथ आरोपी हरिओम तंवर और जीवन आदिवासी को गिरफ्तार किया। एक आरोपी फरार है जिसकी तलाश जारी है। वन्य-प्राणी अपराध की जानकारी इन नम्बरों पर दें प्रधान प्रमुख वन संरक्षक (वन्य-प्राणी) श्री जितेन्द्र अग्रवाल ने लोगों से अपील की है कि यदि उन्हें किसी प्रकार के वन्य-प्राणी अपराध की जानकारी मिलती है, तो कृपया अविलम्ब दूरभाष क्रमांक- 9424792414, 9424792115, 9424792324 और 9424797031 से 41 तक किसी एक नम्बर पर सूचना दें। प्रदेश में वन्य-प्राणी अपराध पर नियंत्रण रखने के लिये भोपाल में एक राज्य स्तरीय टाइगर स्ट्राइक फोर्स और होशंगाबाद, इंदौर, सागर, जबलपुर तथा सतना में 5 क्षेत्रीय स्ट्राइक फोर्स कार्यरत हैं। विगत वर्षों में इन दलों ने प्रदेश और देश के कई राज्यों में जाकर अन्तर्राष्ट्रीय-राष्ट्रीय स्तर के तस्करों को गिरफ्तार करने के साथ उनके नेटवर्क को नष्ट करने में अभूतपूर्व सफलता प्राप्त की है। अब इस दल के पास वन्य-प्राणी अपराध से संबंधित गुप्त सूचनाएँ प्राप्त होती रहती हैं जिनकी पुष्टि के बाद ये छापामार कर कार्यवाही करते हैं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 April 2017

 दलाई लामा

तुरनाल (नेमावर) में यात्रा में धर्मगुरु  दलाई लामा एवं मुख्यमंत्री  चौहान हुए शामिल  आज विश्व को भौतिकता की नहीं प्रेम, करुणा एवं मैत्री की शिक्षा दिया जाना आवश्यक है। भौतिक ज्ञान की नहीं अपितु भावनात्मक ज्ञान की आवश्यकता है, और समूचे विश्व को यह शिक्षा, यह ज्ञान केवल भारत ही प्रदान कर सकता है। भारत में विश्व को  आधुनिकता के ज्ञान के साथ आध्यात्मिकता का ज्ञान भी दे सकता है। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश में नर्मदा सेवा यात्रा आयोजित कर पर्यावरण संरक्षण एवं नदी संरक्षण के क्षेत्र में अत्यंत सराहनीय कार्य किया है। धर्मगुरू श्री दलाई लामा ने आज देवास जिले के नेमावर के समीप तुरनाल ग्राम में नर्मदा सेवा यात्रा के कार्यक्रम में यह विचार प्रकट किए। इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान, स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री श्री दीपक जोशी, स्थानीय विधायक, जन-प्रतिनिधि, विभिन्न धर्म एवं संप्रदायों के संत,  अधिकारीगण उपस्थित थे। जाति, धर्म एवं रंगभेद को दूर करना होगा श्री दलाई लामा ने कहा कि विश्व में सुख, समृद्धि एवं शांति के लिए जाति, धर्म के भेद, रंगभेद अदि को दूर करना होगा । इसके लिए आवश्यक है कि हम सब अपनी पारस्परिक एकता को समझें। विश्व के समूचे सात अरब लोग एक हैं । मैं भी उन सात करोड़ लोगों में से एक हूँ। हमें स्वार्थ की सोच को छोड़ना होगा और एक दूसरे के प्रति प्रेम और सद्भाव की भावना रखनी होगी। मुख्यमंत्री के प्रयास सराहनीय श्री दलाई लामा ने कहा कि पर्यावरण संरक्षण, नदी संरक्षण के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा नर्मदा सेवा यात्रा के रूप में किए जा रहे प्रयास अत्यंत सराहनीय है। मेरी मुख्यमंत्री से गंभीर विषयों पर चर्चा हुई है। मैं उनके विचारों से सहमत हूँ। हमें मानव मात्र की तरक्की एवं उन्नति के लिए लगातार प्रयास करने होंगे। कड़ी मेहनत करनी होगी। केवल बोलने से यह सब संभव नहीं है। हमें अपने पर्यावरण को पूर्ण रूप से स्वच्छ एवं पानी को निर्मल करना होगा। पूर्वजों की धरोहर को बचाना होगा श्री दलाई लामा ने कहा कि वृक्ष, पानी, हवा आदि के रूप में हमारे पूर्वजों ने जो धरोहर हमें दी है उसे हमें बचाना होगा। मैं स्वयं जल संरक्षण एवं पर्यावरण की स्वच्छता के लिए निरंतर प्रयास करता हूँ। पानी बचाने के लिए मैं कभी बाथ टब का इस्तेमाल नहीं करता अपितु शॉवर से ही नहाता हूँ। ग्रामीण क्षेत्रों का विकास अत्यंत आवश्यक श्री दलाई लामा ने कहा कि भारत एक कृषि प्रधान देश है। यहाँ की अधिकांश जनता ग्रामों में निवास करती है। इसलिए यहाँ ग्रामीण क्षेत्रों का विकास अत्यंत महत्वपूर्ण है। जो सुविधाएँ शहरों को मिलती हैं वे गाँव में भी होना चाहिए। तकनीकी विकास आवश्यक है परंतु इससे भी ज्यादा आवश्यक है हर व्यक्ति को भोजन, पानी, स्वच्छ हवा मिले । मुख्यमंत्री ने गाँव के विकास की बात कही है मैं उनकी सराहना करता हूँ। गाँव में भी शिक्षा के लिए विश्वविद्यालय, मनोरंजन के लिए सिनेमा अदि होने चाहिए। वहाँ अच्छे अस्पताल भी होने चाहिए। महिलाओं की अधिक सक्रिय भूमिका हो श्री दलाई लामा ने कहा कि विकास में महिलाओं की अधिक सक्रिय भूमिका होनी चाहिए। पुरुषों की तुलना में महिलाएँ अधिक संवेदनशील होती हैं। दुनिया को बेहतर बनाने के लिए महिलाओं की उन्नति पर अधिक ध्यान दिया जाना चाहिए। अहिंसा पर विशेष जोर दिया दलाई लामा ने अपना वक्तव्य अंग्रेजी भाषा में दिया परंतु अहिंसा शब्द उन्होंने हिंदी में बोला तथा उसका विशेष महत्व बताया। उन्होंने बताया कि इसी से विश्व में सदभावना, प्रेम एवं शांति स्थापित होगी। उन्होंने कहा कि भारत ही विश्व में एकमात्र ऐसा राष्ट्र है जहाँ विभिन्न धर्मों के अनुयायी एक साथ, आपसी प्रेम सद्भावना एवं भाईचारे के साथ रहते हैं। यह इस देश की विशिष्टता है। भारत ही ऐसा देश है जो भौतिक प्रगति के साथ अंतर्ज्ञान को जोड़ सकता है। स्पर्श से शांति एवं नई ऊर्जा मिली इस अवसर पर मुख्यमंत्री शिवराज शिवराज सिंह चौहान ने अपने वक्तव्य में कहा कि धर्मगुरु श्री दलाई लामा विश्व के महान धर्म गुरु  एवं आध्यात्मिक व्यक्ति हैं। उनके स्पर्श से आज मैंने आत्मिक शांति एवं नई ऊर्जा महसूस की है। दुनिया की अदभुत यात्रा मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि नदी संरक्षण के क्षेत्र में नर्मदा सेवा यात्रा दुनिया की अद्भुत यात्रा बन गई है। इस यात्रा में जनता का उत्साह देखने लायक है। नर्मदा हमारी जीवन रेखा है, नर्मदा नहीं तो प्रदेश नहीं, प्रदेश नहीं तो हम नहीं। प्रदेश की लाखों हेक्टेयर भूमि पर नर्मदा से सिंचाई होती है। नर्मदा के जल को संरक्षित एवं स्वच्छ बनाने के साथ-साथ इसके आसपास पर्यटन की गतिविधियों को विकसित किया जाएगा। दोनों तटों पर एक किलोमीटर दूर तक पेड़ लगाए जाएंगे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बताया कि नर्मदा तट के दोनों ओर 1 किलोमीटर की दूरी तक फलदार पेड़ लगाए जाने की योजना है। वृक्षारोपण शासकीय एवं निजी दोनों भूमियों पर किया जाएगा। निजी भूमि पर वृक्षारोपण करने पर किसान को 20000 रूपये प्रति हेक्टेयर मुआवजा तथा 40 प्रतिशत अनुदान मिलेगा। इसकी मजदूरी शासन की मनरेगा योजना से दी जाएगी। इससे एक ओर नदी की धार बढ़ेगी तो दूसरी और किसानों की आय बढ़ेगी। 2 जुलाई को एक साथ लगेंगे करोडो पेड़: मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रदेश में आगामी 2 जुलाई को एक दिन में करोडो पेड़ नर्मदा के तट पर लगाए जाएंगे। उन्होंने सभी से आह्वान किया कि वे नर्मदा सेवक के रूप में इस अभियान  में अपनी सक्रिय भागीदारी  निभाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि नर्मदा नदी में एक भी बूँद गंदा पानी नहीं मिलने दिया जाएगा। गंदे पानी को पाइप लाइन द्वारा दूसरी तरफ ले जाकर स्वच्छ किया जाएगा तथा इसके बाद किसानों के खेतों में डाला जाएगा। उन्होंने कहा कि पूजन की ऐसी पद्धति बनाई जाए जिससे कि नदी में गंदगी न हो। पूजन सामग्री को पूजन कुण्ड में ही डाला जाए।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 March 2017

narmda yatra

नर्मदा यात्रा पूरे भारत को जगाने का अभियान : मोहन भागवत  मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि वर्षा काल में एक दिन नर्मदा के दोनों तट पर अमरकंटक से लेकर बड़वानी तक लाखों लोग एक साथ पेड़ लगायेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज नेमावर में 'नमामि देवि नर्मदे'-सेवा यात्रा के जन-संवाद को संबोधित कर रहे थे। नेमावर में यात्रा के आगमन पर लोगों ने आस्था, विश्वास और उत्साह के साथ यात्रा का स्वागत किया। मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि नर्मदा सेवा यात्रा एक अद्भुत यात्रा है। नर्मदा की कृपा से मध्यप्रदेश अन्न के उत्पादन में देश में सबसे आगे है। नर्मदा से पेयजल, सिंचाई, बिजली और रोजगार मिलता है। नर्मदा के दोनों तटों के पेड़ पिछले पचास वर्षों में काट दिये गये हैं, जिससे नर्मदा की जल-धारा प्रभावित हुई है। उन्होंने कहा कि नर्मदा के दोनों तटों पर पेड़ लगाने का संकल्प लें। किसान अपनी जमीन पर फलदार पेड़ लगायें तो उन्हें चार वर्ष तक 20 हजार रुपये प्रति हेक्टेयर की दर से आर्थिक सहायता दिया जायेगा। नर्मदा किनारे के सभी शहर में सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट लगायें जायेंगे। उन्होंने संकल्प दिलाया कि नर्मदा में पूजन समग्री नहीं डालें। इसके लिये नर्मदा के किनारे पूजन कुंड बनाये जायेंगे। नर्मदा किनारे के गाँवों के हर घर में शौचालय बनवायें। नर्मदा तट के पाँच-पाँच किलो मीटर की परिधि में आगामी एक अप्रैल से शराब की दुकानें बंद हो जायेंगी। अपने गाँवों को नशामुक्त बनाने का संकल्प लें। बेटा और बेटी को बराबर मानें उन्हें पढ़ायें। नर्मदा के तटों पर चेंजिंग रूम बनाये जायेंगे। बेटियों से दुराचार करने वालों को फाँसी की सजा दिलाने का कानून बनाया जायेगा। अगले वर्ष से प्रदेश की दूसरी नदियों पर भी इस तरह के अभियान चलाये जायेंगे। नेमावर में जन-संवाद में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सर संघसंचालक डॉ. मोहन भागवत ने कहा कि नर्मदा सेवा यात्रा अपने कर्म से पूरे भारत को जगाने का अभियान है। आधुनिक समय में मन में श्रद्धा रखकर कर्मरत होने का सबसे बड़ा उदाहरण यह यात्रा है। डॉ. भागवत ने आगे कहा कि दुनिया के किसी भी देश में नदी को माँ नहीं कहते। हमारे यहाँ नदियों को माँ मानते हैं और पेड़-पौधों की भी पूजा करते हैं। हमारे यहां कण-कण में ईश्वर को देखते हैं। हम सारी दुनिया की एकता में विश्वास रखते हैं। नर्मदा नदी हमें अपना स्वभाव और जीवन देती है। नर्मदा की सेवा यात्रा से पूरे देश में ऐसी प्रेरणा फैले। कार्यक्रम को आचार्य श्री विष्णु पुणन्ना जी, स्वामी रंगनाथ आचार्य जी, महाराज अखिलेश्वरानंद जी और सुश्री प्रज्ञा भारती ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम में नर्मदा कलश का पूजन किया गया। साधु-संतों का सम्मान हुआ। शिव तांडव नृत्य की प्रस्तुति भी हुई। कार्यक्रम में वन मंत्री डॉ. गौरीशंकर शेजवार, खेल एवं युवक कल्याण मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया, स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री श्री दीपक जोशी, पर्यटन एवं संस्कृति राज्य मंत्री श्री सुरेन्द्र पटवा, सांसद एवं प्रदेश भाजपा अध्यक्ष श्री नंदकुमार सिंह चौहान, राज्य खनिज विकास निगम के अध्यक्ष श्री शिव चौबे, मुख्यमंत्री की धर्मपत्नि श्रीमती साधना सिंह, जन-अभियान परिषद के उपाध्यक्ष श्री प्रदीप पाण्डे और श्री राघवेन्द्र गौतम सहित सभी धर्मों के धर्मगुरू, साधु-संत और जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे। स्वागत भाषण विधायक श्री आशीष शर्मा ने दिया।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 March 2017

narmda arti nemavar

19 मार्च तक स्थगित रहेगी यात्रा  मुख्यमंत्री  शिवराजसिंह चौहान आज सपत्निक नेमावर में माँ नर्मदा की आरती में शामिल हुए। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सर संघचालक श्री मोहन भागवत, महामंडलेश्वर अखिलेश्वरानंद, साध्वी प्रज्ञा भारती एवं अन्य साधु-संत भी माँ नर्मदा की आरती में सहभागी बने। वन मंत्री डॉ. गौरीशंकर शेजवार, खेल एवं युवक कल्याण मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया, जिले के प्रभारी मंत्री श्री सुरेन्द्र पटवा, स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री श्री दीपक जोशी, सांसद श्री नंदकुमारसिंह चौहान, विधायक आशीष शर्मा सहित अन्य जन-प्रतिनिधि भी आरती में उपस्थित थे। नेमावर में जन-संवाद कार्यक्रम के बाद मुख्यमंत्री श्री चौहान सपत्निक लगभग दो किलोमीटर तक ध्वज एवं कलश के साथ पैदल चलकर माँ नर्मदा के घाट पहुँचे। माँ नर्मदा के कलश और ध्वज-पूजन के बाद उन्होंने सिद्धेश्वर मंदिर में जाकर गर्भगृह में इन्हें स्थापित किया। अब ध्वज और कलश 19 मार्च तक यहीं रखे जायेंगे और नर्मदा सेवा यात्रा का विराम रहेगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 March 2017

kumar gandharv

संगीत जीवन को आनंदमयी बनाता है। पंडित कुमार गंधर्वजी ने संगीत को जो उँचाइयाँ दी हैं उनको बयान करना संभव नहीं है। देवास नगर जहाँ कुमारजी ने संगीत साधना की है, वहाँ आना मेरे लिए सौभाग्य की बात है। मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने यह बात देवास में प्रख्यात संगीतज्ञ पंडित कुमार गंधर्व की 25वीं पुण्य-तिथि पर अनहद समारोह में कही। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कुमारजी के निवास-स्थल पर उनकी स्मृति में संजोई वस्तुओं एवं उनके बाल्य-काल के चित्रों को देखकर मन अभिभूत हो गया। उन्होंने कहा कि देवास में कुमार गंधर्व संग्रहालय बनाया जायेगा। इसके लिए स्थान का चयन विचार-विमर्श कर किया जायेगा। इसके अलावा देवास शहर में कुमारजी की प्रतिमा भी स्थापित की जायेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि सिविल लाईन मार्ग का नामकरण पंडित कुमार गंधर्व के नाम से किया जायेगा। उन्होंने शिलालेख का अनावरण भी किया।  श्री अशोक वाजपेयी एवं श्री महेश अलकुंजवार ने भी संबोधित किया। पंडित मधुप मुदगल के निर्देशन में 29 कलाकारों के दल द्वारा गंवर्ध वृन्द प्रस्तुत किया गया। शुरूआत स्वाति-वाचन हुई। इसके बाद राग कल्याण में ध्रुपद गायन हुआ। मुख्यमंत्री श्री चौहान एवं सभी श्रोताओं ने आनंद के साथ प्रस्तुतियों को सुना।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  15 January 2017

जन्मजात विकृति जानने लांच होगा विशेष एप चेतना

बच्चों में जन्मजात विकृति जानने लांच होगा विशेष एप चेतना बच्चों में जन्मजात विकृति, बीमारी और उनके विकासात्मक विलम्ब को चिन्हित करने के लिये 'चेतना' नाम का विशेष एप बनाया जा रहा है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के बाल सुरक्षा कार्यक्रम में बनने वाले इस एप में 4 डी-डिफेक्ट बर्थ, डिज़ीज़, डेफिशिएंसी और डेव्हलपमेंटल डिले की बच्चों में स्क्रीनिंग की जायेगी। चेतना का फुल फार्म है चाइल्ड हेल्थ, एक्जामिनेशन, ट्रीटमेंट, नोटिफिकेशन और एप्लीकेशन। स्वास्थ्य मंत्री  रुस्तम सिंह अगले सप्ताह प्रदेश में इस एप का शुभारंभ करेंगे। पॉयलेट प्रोजेक्ट के रूप में प्रदेश के चार जिले भोपाल, होशंगाबाद, बड़वानी और रीवा में प्रारंभ किया जा रहा है। बाद में इसे पूरे प्रदेश में लागू किया जायेगा। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन में आज एप से संबंधित कार्यशाला की गयी। मिशन संचालक श्री व्ही. किरण गोपाल ने बताया कि प्रस्तावित एप से कार्यक्रम को उत्कृष्ट एवं तकनीकी पद्धति से चलाने में मदद मिलेगी। कार्यशाला में पॉयलेट प्रोजेक्ट में शामिल जिलों के चिकित्सक, जिला समन्वयक ने भाग लिया।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 November 2016

जन्मजात विकृति जानने लांच होगा विशेष एप चेतना

बच्चों में जन्मजात विकृति जानने लांच होगा विशेष एप चेतना बच्चों में जन्मजात विकृति, बीमारी और उनके विकासात्मक विलम्ब को चिन्हित करने के लिये 'चेतना' नाम का विशेष एप बनाया जा रहा है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के बाल सुरक्षा कार्यक्रम में बनने वाले इस एप में 4 डी-डिफेक्ट बर्थ, डिज़ीज़, डेफिशिएंसी और डेव्हलपमेंटल डिले की बच्चों में स्क्रीनिंग की जायेगी। चेतना का फुल फार्म है चाइल्ड हेल्थ, एक्जामिनेशन, ट्रीटमेंट, नोटिफिकेशन और एप्लीकेशन। स्वास्थ्य मंत्री  रुस्तम सिंह अगले सप्ताह प्रदेश में इस एप का शुभारंभ करेंगे। पॉयलेट प्रोजेक्ट के रूप में प्रदेश के चार जिले भोपाल, होशंगाबाद, बड़वानी और रीवा में प्रारंभ किया जा रहा है। बाद में इसे पूरे प्रदेश में लागू किया जायेगा। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन में आज एप से संबंधित कार्यशाला की गयी। मिशन संचालक श्री व्ही. किरण गोपाल ने बताया कि प्रस्तावित एप से कार्यक्रम को उत्कृष्ट एवं तकनीकी पद्धति से चलाने में मदद मिलेगी। कार्यशाला में पॉयलेट प्रोजेक्ट में शामिल जिलों के चिकित्सक, जिला समन्वयक ने भाग लिया।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 November 2016

Video

Page Views

  • Last day : 5924
  • Last 7 days : 33929
  • Last 30 days : 111788
All Rights Reserved ©2019 MadhyaBharat News.