Since: 23-09-2009

  Latest News :
सिद्धू की पैरवी कर रही है प्रियंका गांधी.   काऊब्वॉय हैट पहन कर निकले कबूतर.   राहुल गाँधी :किसानों का कर्ज माफ होकर रहेगा.   RBI का अलर्ट अभी और बिगड़ेंगे आर्थिक हालात.   कर्नाटक विधानसभा उपचुनाव के नतीजे घोषित.   हैण्डलूम एक्सपोर्ट कार्पोरेशन ने भुगतान रोका.   कुदरत की मार ने तोड़ी किसानों की कमर.   कैब नागरिकता देने वाला कानून,लेने वाला नहीं.   अतिथि विद्वानों का सरकार के खिलाफ धरना.   बेमौसम बारिश से मंडी में रखी धान बर्बाद.   कार्यालयों से नदारद रहते है पंचायत सचिव.   मुख्यमंत्री के छिंदवाड़ा में शिक्षा विभाग के बुरे हाल.   दो युवतियों की जघन्य हत्या .   किसानो ने किया सीएम भूपेश बघेल का पुतला दहन.   युवक ने किया सरेआम महिला पर हँसिये से हमला.   दुष्कर्मी को पीटने कोर्ट परिसर में दौड़ीं महिलाएं.   ITBP जवान ने साथी पर की फायरिंग 6 की मौत.   नक्सली DKMS अध्यक्ष सन्ना हेमला हुआ सरेंडर.  

झाबुआ News


 PM IMRAN KHAN

टमाटर चाहिए तो पहले PoK दो और माफी मांगो   झाबुआ के 150 से अधिक किसानों ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को टि्वटर और डाक विभाग के जरिए पत्र भेजकर कहा है कि अगर पाकिस्तान को टमाटर चाहिए तो वः सबसे पहले p o k  कश्मीर वापस करे  | औरभारत से माफ़ी मांगे  |  ईरान से टमाटर मंगाने के बाद भी पाकिस्तान पर टमाटर संकट बरकरार है  |  पाकिस्तान में टमाटर 400-500 रुपए किलो बिक रहा है  |  ऐसे में  टि्वटर के जरिए भारतीय किसान यूनियन की झाबुआ जिला इकाई ने इमरान को कहा कि बाघा बार्डर से आपके देश में टमाटर जाते थे, लेकिन आतंकवादियों और आपकी सेना ने हमारे देश के निर्दोष लोगों पर हमले किए, आतंकवाद फैलाया, 26/11 व पुलवामा जैसे हमले करवाए  |  इसके बाद हमारे देश और हमने आपको टमाटर नहीं देने का फैसला लिया  |  पकिस्तान  में जनता की टमाटर को लेकर खराब हालत के बाद हम टमाटर उत्पादक किसान इस नतीजे पर पहुंचे हैं कि अगर पाकिस्तान भारत के दुश्मनों को हमारी सरकार को सौंप दे और अनधिकृत रूप से कब्जा किए कश्मीर  को शांतिपूर्वक भारत को सौंप दे तो भारतीय किसान यूनियन झाबुआ जिला इकाई अपने जिले के उत्पादक किसानों को बैठाकर आपके देश में टमाटर भेजने पर विचार कर सकती है  .| किसानों ने आखिर में लिखा कि उम्मीद है कि हमारे इस प्रस्ताव पर आप गंभीरता से अपने देश के नागरिकों के हित में विचार करेंगे  |  झाबुआ के  किसानों ने कई साल तक पाकिस्तान को टमाटर निर्यात  किया है  |  किसान यूनियन के जिलाध्यक्ष महेंद्र हामड़ ने कहा 18 सितंबर 2016 को हुए उरी आतंकवादी हमले के बाद से किसान नाराज थे और पाकिस्तान टमाटर भेजना बंद कर दिया था  |  इससे पहले करीब डेढ़ दशक से पाकिस्तान टमाटर यहां से भेजे जाते थे  |  ग्राम बावड़ी, पेटलावद सहित आसपास के ग्रामीण क्षेत्र के 150 से अधिक किसानों ने इस प्रकार का पत्र किसान यूनियन के माध्यम से पाकिस्तानी प्रधानमंत्री को लिखा है और उस पर हस्ताक्षर किए हैं   |                  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 November 2019

upchunav

हाईकमान तय करेगा कौन बनेगा अध्यक्ष | पूर्व मंत्री और कांग्रेस नेता कांतिलाल भूरिया ने कहा कि झाबुआ उपचुनाव में कांग्रेस की जीत होगी | भूरिया ने कहा कि बीजेपी ने जो विकास कार्य  15 साल में नहीं किये वो मुख्यमंत्री कमलनाथ ने 6 महीने में कर  दिखाए | झाबुआ उपचुनाव पर कांतिलाल भूरिया ने कहा पूरा प्रदेश मुख्यमंत्री कमलनाथ के द्वारा किये गए विकास कार्य को देख रहा है | बीजेपी ने जो काम पंद्रह साल में नहीं किये उसे  मुख्यमंत्री कमलनाथ ने 6 महीने में कर दिया |  बीजेपी ने रोजगार गारंटी बन्द कर दी थी | लेकिन कांग्रेस सरकार ने यह योजना चालू कर दी है |  लोगों को हमारी सरकार पर भरोसा है |  मध्यप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष को लेकर कांतिलाल भूरिया ने कहा  कांग्रेस हाईकमान तय करेगा की अगला अध्यक्ष कौन बनेगा  | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 September 2019

jhabua

चौकी प्रभारी ने लगाई फांसी  झाबुआ के झकनावदा पुलिस चौकी प्रभारी भागीरथ बघेल ने पुलिस चौकी के पास बने कवार्टर मे फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली  ... बघेल ने ऐसा क्यों किया इस बात का खुलासा अभी नहीं हुआ   झाबुआ के पेटलावद तहसील के झकनावदा में चौकी प्रभारी ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली  ... बताया जा रहा है कि प्रभारी भागीरथ बघेल चौकी के पास ही बने अपने क्वार्टर में रहते थे और यहीं उन्होंने खुदकुशी कर ली  ... अभी खुलासा नहीं हो पाया है कि बघेल ने यह कदम क्यों उठाया   ... इस घटना के बाद बड़े अधिकारी मौके पर पहुंचे और घटना स्थल का निरिक्षण किया  ... 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 June 2019

तेंदूपत्ता संग्राहक

मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने आज झाबुआ जिले के ग्राम सुतरेटी में असंगठित श्रमिक एवं तेंदूपत्ता संग्राहक सम्मेलन में कहा कि प्रदेश में फसल काटने, गिट्टी तोड़ने और हम्माली करने वाले श्रमिकों तथा ढ़ाई एकड़ से कम जमीन वाले किसानों को विभिन्न योजनाओं का भरपूर लाभ दिया जायेगा। राज्य सरकार बिना किसी भेदभाव के सभी जरूरतमंदों और गरीबों को जन-कल्याणकारी योजनाओं से लाभान्वित कर रही है। श्री चौहान ने इस मौके पर नर्मदा-झाबुआ सिंचाई परियोजना के लिये 2050.70 करोड़ रूपये स्वीकृत करने की घोषणा की। सम्मेलन में मुख्यमंत्री ने विभिन्न योजनाओं के पात्र हितग्राहियों को हित-लाभ एवं वनाधिकार पट्टों का वितरण किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि झाबुआ जिले में असंगठित श्रमिक कल्याण योजना में पंजीकृत 3 लाख 66 हजार गरीबों को जमीन का मालिक बनाया जाएगा। प्रत्येक पट्टे पर प्रधानमंत्री आवास और मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत मकान बनवाकर दिए जायेंगे। वर्ष 2022 तक सभी आदिवासियों को पक्के मकान बनवाकर दिये जायेंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश में गरीबों को मकान के लिए जमीन और बिजली प्राथमिकता के आधार पर दी जाएगी। श्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार पंडित दीनदयाल के आदर्शो पर चलकर गरीबों के कल्याण के लिए कार्य कर रही है। प्रदेश में विगत एक अप्रैल से पंजीकृत श्रमिकों को 200 रुपये प्रति माह की दर से घरेलू बिजली दी जा रही है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि भारत सरकार की आयुष्मान योजना का लाभ मध्यप्रदेश की जनता को भी दिलवाया जाएगा। साथ ही, गरीब बहनों को सम्मानजनक व्यवसाय के लिए प्रशिक्षित किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने विभिन्न योजनाओं की विस्तार से जानकारी देते हुए नागरिकों से अपील की कि 7 मई को विशेष ग्राम सभा में अवश्य भाग लें। सभा में असंगठित मजदूरों के पंजीयन की सूची पढ़ी जायेगी। उन्होंने श्रमिकों से आग्रह किया कि अगर सूची में नाम छूट गया हो, तो विशेष ग्राम सभा में ही अपना नाम जुड़वाएँ। सम्मेलन में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने श्रमिकों, तेंदूपत्ता संग्राहकों एवं महुआ फूल बीनने वाले श्रमिकों को चरण पादुका, साड़ी और पानी की बॉटल का वितरण किया। विभिन्न योजनाओं के हितग्राहियों को हित-लाभ भी वितरित किये। मुख्यमंत्री ने आदिवासी बोली की नुक्कड़ नाटक पुस्तिका ''पोरियों नी हन्देहो'' का विमोचन किया और नागरिकों को बच्चों को पढ़ाने, जल-संरक्षण, गाँव को सुंदर और स्वच्छ बनाने, घर में शौचालय बनाने, पर्यावरण संरक्षण के लिए पौधे लगाने और वृक्ष बचाने का संकल्प दिलवाया। कार्यक्रम में विधायक श्री कलसिंह भाबर और श्री शांतिलाल बिलवाल तथा राज्य लघु वनोपज संघ के अध्यक्ष श्री महेश कोरी उपस्थित थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 May 2018

पेटलावद बलास्ट मृतकों की संख्या 94 ,घटना की न्यायिक जाँच होगी

मृतकों के परिजन को मिलेंगे 5-5 लाख रुपये झाबुआ के पेटलावद ब्लास्ट में मरने वालों की संख्या 94 पहुँच गई है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने झाबुआ जिले के पेटलावद पहुँचकर घटना का जायजा लिया। वे शनिवार को यहाँ हुए एक भीषण हादसे के घायल तथा मृतकों के परिजनों से मिले। उन्होंने कहा कि पेटलावद में हुए भीषण हादसे की न्यायिक जाँच करवायी जायेगी। मृतकों के परिजनों को पाँच-पाँच लाख रुपये दिये जायेंगे। प्रत्येक मृतक के परिवार के एक सदस्य को पात्रता अनुसार रोजगार/स्व-रोजगार मुहैया करवाया जायेगा। किसी भी हाल में अपराधी को छोड़ा नहीं जायेगा। अपराधी की सूचना देने वाले को एक लाख रुपये का इनाम दिया जायेगा।मुख्यमंत्री श्री चौहान पेटलावद में मृतकों के परिजन और घायलों से मुलाकात के दौरान बहुत द्रवित दिखे। उन्होंने न केवल सबको ढाँढस बँधाया बल्कि हरसंभव मदद की बात भी कही। अनेक जगह उन्होंने जमीन पर बैठकर लोगों की बात को गंभीरता से सुना।एसडीएम और एसडीओपी हटायामुख्यमंत्री श्री चौहान ने पेटलावद के एस.डी.एम. और एस.डी.ओ.पी. को तत्काल प्रभाव से हटाने के निर्देश दिये। उन्होंने पेटलावद थाना के पूरे अमले को भी तत्काल प्रभाव से बदलने के निर्देश दिये।40 परिवारों से मिलकर की संवेदना व्यक्तमुख्यमंत्री ने अपने पेटलावद प्रवास के दौरान 40 परिवारों से मिलकर संवेदना प्रकट की। उन्होंने सभी को ढाँढस बताया और जाँच में कोई कोताही न बरतने की बात की।मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सोमवार की सुबह पुन: पेटलावद जायेंगे। मुख्यमंत्री सोमवार को मृतकों और घायलों से संबंधित 17 गाँव में जाकर परिजनों से भेंटकर उन्हें दिलासा देंगे।मुख्यमंत्री चौहान सबसे पहले सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पेटलावद पहुँचकर घायलों से मिले। उन्होंने घायलों के स्वास्थ्य की जानकारी ली तथा उनके शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की। उन्होंने चिकित्सकों को निर्देश दिये कि घायलों के मध्यप्रदेश और मध्यप्रदेश के बाहर जहाँ भी जरूरी होगा, उपचार में किसी भी तरह की कोई कसर नहीं छोड़े। घायलों को बेहतर से बेहतर चिकित्सा मुहैया करवायी जाये। उन्होंने घायलों के परिजनों को आश्वस्त किया कि घायलों के उपचार में व्यय होने वाली सम्पूर्ण राशि राज्य शासन वहन करेगा। शासन द्वारा हरसंभव आवश्यक मदद दी जायेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान हादसे में मृत लोगों के परिजन से भी मिले और उन्हें सांत्वना दी। उन्होंने राज्य शासन की ओर से उन्हें सहायता देने की बात कही।मुख्यमंत्री घटना स्थल के आसपास एकत्र स्थानीय नागरिकों से भी मिले। उन्होंने सभी की बात को गंभीरता से सुना तथा नागरिकों द्वारा दिये गये सुझावों पर अमल करने का भरोसा दिलाया। श्री चौहान ने घटना स्थल का मुआयना करने के बाद पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिये।मुख्यमंत्री श्री चौहान स्थानीय मुक्तिधाम भी गये जहाँ मृतकों का अंतिम संस्कार किया गया था। वहाँ मुख्यमंत्री ने मृतकों के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित की।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

Video

Page Views

  • Last day : 5596
  • Last 7 days : 32148
  • Last 30 days : 146931
All Rights Reserved ©2019 MadhyaBharat News.