Since: 23-09-2009

  Latest News :
जनता कांग्रेस ने कलेक्टर को लिखा पत्र.   मोदी जहां जाते हैं झूठ बोल कर आते हैं.   मोदी:इस बार की दिवाली बेटियों को समर्पित.   मायावती अपनाएंगी बौद्ध धर्म.   व्यापारी हो रहे हैं लामबंद.   समुद्र तट पर PM मोदी का स्वच्छता अभियान.   पार्षदों ने जताया विरोध ,दर्ज करवाईं आपत्तियां.   मध्यप्रदेश रियल एस्टेट नीति में बदलाव.   लहसुन से भरे ट्रक में लगी आग.   राहुल ने एमपी का भाषण महाराष्ट्र में दिया.   ब्लास्ट से टूटा पत्थर कार में घुसा,चालक की मौत.   हनी ट्रैप मामले में मंत्री ने महिलाओं को बताया दोषी.   शरदपूर्णिमा पर बंटी जड़ीबूटी वाली खीर.   लखमा ने की रमन सिंह के नार्को टेस्ट की मांग.   झीरम घाटी कांड लखमा की भूमिका की जाँच हो.   इनामी नक्सली माड़वी गंगी ने किया समर्पण.   खाई में गिरी बस पेड़ से टकरा कर रुकी.   पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में हुआ एक नक्सली ढेर.  

सागर News


 NAGAR NIGAM

सांसद नहीं करते नियम का पालन   एक तरफ नए परिवहन नियमों से जहाँ लोग परेशान हैं  |  वहीँ ये नियम बनाने वाले खुद इन नियम कानूनों  का पालन नहीं करते  | सागर से बीजेपी सांसद राज बहादुर ने अपनी गाडी पर नंबर लिखवाना तक उचित नहीं समझा  और वे बिना नंबर की गाडी में घूमते रहते हैं |  पुलिस भी ऐसे लोगों के खिलाफ कोई एक्शन  लेने की बजाये उनके सामने हाथ बांधे खड़ी नजर आती है  |  एक तरफ देश मे नए व कठोर  परिवहन नियम बनाये जा रहे हैं और उनसे जनता परेशान हो रही हैं |  नियमों का पालन न करने वालों पर   बड़े बड़े जुर्माने किये जा रहे हैं  |  वहीँ संसद ने नियम कानून बनाने वाले  भारतीय जनता पार्टी  के सांसद  राज बहादुर ने अपनी गाड़ी पर  नंबर  लिखवाना तक   उचित नही समझा   |  जब  उनसे पूछा तो कहने लगे कि मुझे नही पता कि नंबर नही लिखा  |  अब नंबर लिखवाते हैं |  पुलिस प्रशासन  भी आम लोगों को तो नियम कानून के नाम पर कुछ ज्यादा ही सख्त हो जाता है  | लेकिन राजनेताओं पर कार्यवाही करने से बचता ही नहीं उनके सामने हाथ बांधे खड़ा नजर आता है |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 October 2019

 KAMALNATH

किसानों क़ो आने लगे बैक़ो से नोटिस नहीं हुआ ऋण माफ़, ब्याज सहित पैसा दें ऋण ना जमा करने पर होगी  कुरकी की कार्यवाई राशि ना जमा होने पर नहीं मिलेगा बीमे का लाभ   कमलनाथ सरकार के किसान  कर्जमाफी के दावों की पोल खुलती नजर आ रही है  | कांग्रेस ने अपने चुनावी वचनपत्र में सरकार बनने के 10 दिन के अंदर    किसान कर्ज माफी  की घोषणा की थी  |   इसे लेकर सरकार के सभी मंत्रियों ने अपने-अपने क्षेत्रों में बड़े कार्यक्रम कर  मंचों से किसानो के कर्ज माफी के प्रमाण पत्र भी बांट दिए  |  किसानों को लगा कि उनका  कर्जा माफ  हो गया है |  लिहाजा किसानों ने बैंकों से लिए ऋण की राशि जमा भी नहीं की  |  लेकिन अब सरकार  बनने के दस  महीने बाद  बैंकों ने किसानों को ऋण की राशि ब्याज सहित जमा करने के नोटिस जारी कर दिए हैं  |  जिससे किसान खुद को ठगा महसूस कर रहा है  |   कमलनाथ सरकार के किसान ऋण माफी के दावे झूठे है |  ये हम नहीं खुद किसान कह रहे   |   मध्य प्रदेश में  कांग्रेस सरकार बनने के बाद मुख़्यमंत्री  कमलनाथ ने  शपथ लेने के तुरंत बाद ही अपनी पहली "फाइल किसानो के कर्ज माफी" पर हस्ताक्षर कर  किसानों का कर्ज माफ होने की बात कही थी   लेकिन  राजस्व मंत्री गोविन्द सिंह राजपूत कें विधानसभा क्षेत्र के जैसीनगर तहसील में    अनेक गांवों के किसान को बैंकों द्वारा नोटिस आए हैं  |   किसान नारायण सिंह ने बताया कि उन्होंने चालीस हजार का लोन लिया था   | लेकिन अब पैसठ हजार  हो गया है  |  उन्होंने कहा की मुख्यमंत्री कमलनाथ ने  कहा था 10 दिन में कर्जा माफ करेंगे   |  लेकिन 10  महीने हो गए अब तक कर्जा माफ नहीं हुआ   |  किसान शिवराज का कहना है कि खाद बीज के लिए पैसे लिए थे  |  कमलनाथ  आए थे उन्होंने कहा था हम कर्जा माफ करेंगे  | अब हम कहां से भरें   |  इस बार फसलें भी खराब हो गई है  | कमलनाथ जी आइये हम आपको किसानो की व्यथा सुनवाते है  |  आपके ऋण माफी के वादे ने कैसे  किसानो को और परेशानी में डाल दिया है  | जो काम आपको दस दिन में करना था वो आप दस महीने भी नहीं कर पाए हैं  |   किसान अवध नरेश का कहना है कि हमने डेढ़ लाख रुपए कर्जे के रूप में लिया था  |  बैंक वाले हमारे यहां आए थे  |  और उनका कहना था कि पैसा भरो वरना तुम्हारी कुर्की कर देंगे   |   हमारे पास तो कुछ नहीं बचा  |  इस बार फसल भी खराब हो गई  हम कहां से भरेंगे   |   बैंक वाले कहते हैं पैसा भरो वरना ब्याज लगेगा  |  कमलनाथ जी आपके ऋण माफी वादे के बाद किसानो ने यह सोच कर कर्ज नहीं भरा की प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कहा है तो ऋण माफ़ होंगे   |  लेकिन यह क्या ऋण माफ़ हुआ नहीं और  बैंक ब्याज सहित ऋण देने की बात कह रहे हैं | नहीं देने पर घर कुर्क  करने की धमकी दी जा रही है  | किसान गुड्डन का कहना है कि पहले तो हम थोड़ा थोड़ा पैसा भर देते थे  |  लेकिन कमलनाथ जी ने कहा था कि हम कर्जा माफ कर रहे  हैं |  जिससे हमने कर्जा नहीं भरा  |    और  अब ब्याज के साथ नोटिस आ रहे है  |  कमलनाथ जी आइये अब हम आपको स्टेट बैंक ऑफ इंडिया  शाखा जैसीनगर के प्रबंधक एके गुप्ता  की बात सुनवाते है  |  जिसमे  अधिकारी साफ़ तौर पर कह रहे है की  |  लोन का पैसा खाते में नहीं आया है   |   और ऋण जमा करना होगा  |   कर्ज़ माफ़ी समय पर होना था |   पर समय पर नहीं हुआ तो  | कंप्यूटर ब्याज तो बढ़ाएगा ही    | और इसके साथ ही पेनल्टी भी लगाएगा  |   जिससे किसानों को बीमा का भी लाभ नहीं मिलेगा   |  इसलिए सभी किसानों से कहा जा रहा है कि ऋण के पैसे समय पर भरें   |       

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 September 2019

BHUPENDRA SINGH BHAGEL

खुरई में पूर्व मंत्री के संबोधन के दौरान मंच गिरा   खुरई में बारिश के बीच पूर्व गृह मंत्री भूपेंद्र सिंह के संबोधन के दौरान मंच भरभरा कर गिर गया  |  जिसमे दो बीजेपी कार्यकर्ता घायल हो गए  ... पूर्व गृह मंत्री के संबोधन के दौरान मंच पर 50-60 कार्यकर्ता चढ़ गए  | अचानक भीड़ बढ़ने से यह हादसा हुआ    खुरई में कांग्रेस सरकार की नीतियों के खिलाफ भाजपा के धरना-प्रदर्शन के दौरान  मंच गिर गया  |  घटना के समय पूर्व गृह एवं परिवहन मंत्री भूपेंद्र सिंह संबोधित कर रहे थे  |  मंच पर सांसद राजबहादुर सिंह, बीना विधायक महेश राय सहित 50-60 कार्यकर्ता मौजूद थे | पूर्व गृह मंत्री सिंह के संबोधन के दौरान अचानक भीड़ बढ़ने से मंच वजन नहीं सह पाया और हादसा हो गया |  यह मंच 15 बाय 16 के एरिया में लोहे के एंगल व लकड़ी के तख्तों से बना था  | पूर्व गृह मंत्री व खुरई विधायक भूपेंद्र सिंह के संबोधन के दौरान  बारिश शुरू हो गई थी और मंच पर भीड़ बढ़ती गई  लगभग 50- 60 लोग मंच पर थे, तभी अचानक मंच धड़ाम से गिर गया  |  मंच गिरते ही अफरातफरी का माहौल बन गया  | हालांकि घटना में किसी बड़े नेता को तो चोट नहीं आई  |   लेकिन दो कार्यकर्ताओं विजय जैन व जानकी विश्वकर्मा को चोटें आई |  जिन्हें प्राथमिक उपचार के बाद  अस्पताल से उन्हें छुट्टी दे दी गई |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 September 2019

 KISHAN BIMA YOJANA

किसानों में सरकार की छवि ख़राब करते अधिकारी   अति बारिश और फसल की बर्बादी से इस समय मध्यप्रदेश का किसान परेशान हैं  | ऐसे में भी किसानों को लेकर अधिकारियों का लापरवाह रवैया सामने आ रहा है  | इन अधिकारियों को किसान की बात बकवास नजर आती है  |  मध्यप्रदेश का किसान खून के आंसू रो रहा है | मौसम की मार से किसान परेशान है तो अधिकारी अपनी ही मस्ती में है |  इन  अधिकारियों को किसानों  की परेशानी से कोई लेना देना नहीं है  | ये नजारा है कुरवाई  के एस डी एम  के दरबार का | जहाँ वह किसानों की बात को बकवास कह रहे हैं  |   यही वो अधिकारी हैं जिनके कारण कमलनाथ सरकार की छवि खराब हो रही है  |  इस वीडिओ में एसडीएम किसान की बात को बकवास बता के उसे  बाहर जाने को कह रहे हैं  | किसान का पैसा बीमा बैकं काटती तो किसानो के आवेदन भी बैकं में जमा होना चाहिए और रिसीव भी मिलनी चाहिए  |  पर यही बात एसडीएम साहब को समझ नहीं आयी और वे किसानों की बात को बकवास कहने लगे |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 September 2019

SADAK

मंत्री को ट्रेक्टर से जाना पड़ा लोगों से मिलने सिर्फ ट्रेक्टर चल सकता है इन सड़कों पर   मध्यप्रदेश में बारिश और सरकार की अनदेखी से सड़कों की हालत बेहद ख़राब है | ग्रामीण इलाकों में तो पूछिए ही मत  | सड़कों के अते -पते ही नहीं हैं  |कमलनाथ सरकार के मंत्री हर्ष यादव अपने इलाके के लोगों का हाल जानने निकले तो उन्हें ट्रेक्टर का सहारा लेना पड़ा |मध्यप्रदेश में कांग्रेस सरकार और सड़कों का भी छत्तीस का आंकड़ा लगता है  | इस समय सरकारी लापरवाही और ऊपर से बारिश ने सड़कों की हालत खस्ता कर दी है | क्या शहर और क्या गांव | सड़क के मामले में हर जगह हाल खराब हैं | ये ट्रेक्टर पर सवार शख्स हैं कमलनाथ सरकार के नवकरणीय ऊर्जा मंत्री हर्ष यादव | मंत्री जी को अपने विधानसभा क्षेत्र देवरी से  ग्रामीण क्षेत्र में अपनी जनता का हाल चाल जानने जाना था | लेकिन सड़क न होने के कारण वहां उनके लग्जरी वाहन जा नहीं सकते थे | ऐसे में  मंत्री हर्ष यादव ट्रेक्टर चलाकर अपने विधानसभा क्षेत्र लोगो से मिलने पहुंचे | आप भी नजारा कर लीजिये एण इलाकों में लोग कैसे आते जाते होंगे  | भला हो मंत्री जी जमीन से जुड़े हैं  और खुद ट्रेक्टर चलाते हुए अपने लोहों से मिलने पहुँच गए  | दरअसल पिछले दिनों  देवरी थाना क्षेत्र के सिरसा गांव में  सड़क हादसे में दो महिलाओं सहित एक आठ माह के भ्रूण की मौत हो गई थी |मंत्री  हर्ष यादव पीडितों के गांव ग्राम अरसी पहुंच गए | मंत्री हर्ष यादव ने पीडित परिवारों को हर संम्भव मदद का भरोसा दिया है  | इस बहाने मंत्री  हर्ष यादव ने  ग्रामीण इलाकों में बारिश  के बाद क्या हालात बने यह भी देख लिया |

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 September 2019

 WEATHER

किसान परेशान सुनने वाला कोई नहीं   सागर जिले में लगातार हो रही बारिश  की वजह  से जहां आम जन जीवन अस्त व्यस्त है वहीँ किसानों की सभी फसलें चौपट हो गई हैं |  किसानों को सबसे बड़ा झटका  उड़द की  फसल से लगा है जो  पूरी तरह से तबाह हो गई है |  लगातार हो रही बारिश ने अब तबाही के मंजर दिखाना शुरू कर दिए हैं  | सागर जिले में सब्जी उगाने वाले किसान फसल ख़राब हो जाने से परेशान थे ऐसे में बारिश के खेतों में जलभराव कर दिया है  |   खेतों में पानी का भराव होने से उड़द के पौधे  गल गए हैं  | उड़द के जो पौधे कुछ बड़े हुए थे उनमे बारिश की वजह से  फूल और फलियां झड़ी गई हैं | सागर क्षेत्र में सभी  खेती अफलन की शिकार हो गई | नहीं है जिसके चलते किसान बेहद परेशान हैं  | गढ़ाकोटा तहसील के  किसानों ने  तहसीलदार को आवेदन देकर   मुआवजे की मांग की है   | लेकिन किसानों की सुनने वाला कोई है  | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 September 2019

GOPAL BHARGAV

पाकिस्तान में मकान बना कर रहें  दिग्विजय   दिग्विजय के बयानो से कांग्रेस को नुक्सान   पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के बजरंगदल और भाजपा पर  आई एस आई से पैसे लेने  वाले बयान पर अब सियासत शुरू हो गई है  |  नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने बयान पर पलटवार करते हुए कहा की  दिग्विजय का बयान उनके दिमाग के  दीवालियापन की निशानी है  | दिग्विजय पकिस्तान की भाषा बोल रहे |    उनको पकिस्तान जाकर रहना चाहिए  |  नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के भाजपा और बजरंगदल पर ISI से पैसे लेने वाले बयान पर पलटवार किया  | और कहा की दिग्विजय सिंह दिमागी तौर पर दीवालिया हो चुके हैं | उन्होंने कहा कि जिस तरह की वे बयानबाजी कर रहे है   ठीक उसी तरह की भाषा पाकिस्तानी परस्त लोग भी बोलते है |  भार्गव ने दिग्विजय सिंह को सलाह देते कहा कि अगर उन्हें पाकिस्तान से इतना ही प्रेम है तो वह पाकिस्तान चले जाएं ओर वही मकान बनाकर रहे  |   नेता प्रतिपक्ष गोपाल भर्गव ने दिग्विजय पर निशाना साधते हुए कहा की  दिग्विजय कभी शहीदों की शहादत का अपमान  , तो कभी सैन्य कार्रवाई पर उंगली उठाकर  , सिर्फ लाइम लाइट में बने रहने के लिए बयानबाजी करते है  |  मुझे लगता है कि जिस तरह वे बयान बाजी करते है  |  उससे लोकसभा में मिली कांग्रेस को  54 सीटें  आगे समय में सिर्फ 4 पर आकर ही लटक जाएगी   |   कांग्रेस की दयनीय हालत की जिम्मेदार  दिग्विजय सिंह की बयानबाजी ही है  |     

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 September 2019

 SCHOOL LAPARWAI

पैर पर रोटी रखकर खाने को मजबूर बच्चे  भ्रष्ट सिस्टम की भेंट चढ़ी खाने की थाली  सरकार दम है तो ऐसे लोगों को सबक सिखाएं    कमलनाथ जी ये तो इंतहा है कि आपके राज में बच्चों को पैर पर रोटी रखकर खाना पड़ रही है  |  ऐसा लग रहा है सिस्टम का भट्टा बैठ गया है |  बच्चों को  स्कूल में हाथों में खाना दिया जा रहा है   | ऐसा नहीं की बच्चों के लिए थाली नहीं है  | थाली भी है   | लेकिन आपके कर्मचारियों की नियत ठीक नहीं है   इनका बस चले तो ये बच्चों के हाथ से निवाला भी छीन ले जाएँ   |   मुख्यमंत्री कमलनाथ जी ये दृश्य आपके राज का है  |  आपके स्कूलों में बच्चों को ऐसे हाथ में खाना दिया जाता है जैसे भीख दी जा रही हो  | इन गरीब बच्चों को आपकी सरकार के कारिंदे थाली तक नहीं देते हैं  |  अब आप ही बताइये ये रोटी कहाँ रखें  |  कोई जगह है नहीं तो पैर पर ही रख लेते हैं  | ये अबोध बच्चे न विरोध कर सकते हैं और न किसी से कुछ कह सकते हैं  | इनकी थाली तक पर तो भ्रष्ट तंत्र ने कब्ज़ा कर लिया है  | जब थाली ही गायब है तो खाने की क्वालिटी पर बात करना ही बेनामी है  | आपके शिक्षा विभाग में तो तबादलों का खेल चल रहा है ऐसे में गरीब बच्चों के खाने की सुध कौन ले  | आपके मंत्रियों के लिए ये सब छोटी मोटी बातें है |  सागर के जैसीनगर संकुल केंद्र के तोड़ा तरफदार गांव में संचालित शासकीय प्राथमिक एवं माध्यमिक विद्यालय में बच्चों के लिए ये सब अब आम बात है | लेकिन सभ्य समाज में बच्चों और अन्न का इससे बड़ा अनादर कोई दूसरा हो नहीं सकता  | इस सबके लिए जवाबदार आपकी सरकार के कारिंदों को पता ही नहीं होता कि उनकी नाक के नीचे हो क्या रहा है  | इस सब के लिए जो जिम्मेदार हैं |  पहले उनकी भी सुन लेते हैं  |  बच्चों को हाथ में खाना देने के मामले के दृश्य आप एक बार और देखिये की इन्हें खाने में दिया क्या जा रहा है   एक या दो सूखी रोटी और थोड़ी से सब्जी  |  सब्जी भी जिन बच्चों को चाहिए तो उन्हें कटोरी या बर्तन घर से लाना पड़ेगा  | मध्यान्ह भोजन में इससे बड़ी  लापरवाही और क्या होगी  की बच्चों का खाना तक भ्रष्ट लोगों के पेट में समा रहा है   | जिनका काम खाना बनाना और बच्चों को खिलाना है उन्होंने सब कुछ ठेके पर दे रखा है  | इस संबंध में स्कूल के प्राचार्य राजेश दुबे का कहना है |   इस संबंध में कई बार एमडीएम  | अध्यक्ष और बीआरसी को भी बताया गया लेकिन किसी तरह का सुधार नहीं हुआ और मध्यान भोजन समूह संचालक के लोग  बच्चों को हाथों में भोजन देकर चलते बनते हैं  | मध्यान भोजन की समिति से भी इस संबंध में शिकायत की लेकिन कोई सुधार नहीं हुआ   | मुख्य्मंत्री कमलनाथ जी ये तो नमूने की एक तस्वीर है  कई  जगह तो हालात इससे भी बदतर है  | समय रहते कुछ कीजिये नहीं कुछ भ्रस्ट लोग आपकी सरकार के अच्छे कामों पर बच्चों का निवाला डकार कर कालिख लगाने से बाज नहीं आएंगे|

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 August 2019

HUNGAMA

दो शिक्षक भरोसे स्कूल, बच्चों के साथ खिलवाड़     शिक्षकों के स्कूल नहीं आने पर बच्चों ने जमकर हंगामा  किया और नारेबाजी की  | बच्चों ने ग्राम पंचायत के दरवाजे पर बैठ कर प्रदर्शन किया  साथ ही सड़क पर  चक्का जाम कर दिया   |  बच्चों का कहना है की एक तो वैसे ही शिक्षकों की स्कूल में कमी है |  उस पर  पदस्थ शिक्षक भी स्कूल नहीं आते  |  जिससे उनकी पढाई पर बुरा असर पड़ रहा  | सागर के  रहली विधानसभा के छिरारी मोहली माध्यमिक शाला में पदस्थ शिक्षक स्कूल नहीं पहुंचे तो बच्चों हंगामा कर दिया  |  बच्चे  ग्राम पंचायत में जाकर पंचायत के दरवाजे पर बैठ गए  और नारेबाजी की   | शिक्षकों के स्कूल नहीं पहुंचने पर  बच्चों ने चक्का जाम कर दिया  |   हंगामे की  खबर लगते ही थाना चौकी प्रभारी दल बल के साथ मोहली गांव पहुंचे |  तब जा के  मामला शांत हुआ   |  वहीं ग्रामीणों का कहना है कि बच्चे शिक्षकों के अभाव में ना तो अपना कोर्स कर पा रहे हैं   | और ना ही पढ़ पा रहे |   शिक्षक अप डाउन करते हैं   |  और जल्दी चले जाते हैं   | शिक्षक स्कूल न आने और देर से आने के लिए कोई न कोई बहाना तैयार रखते हैं |  माध्यमिक विद्यालय में  6 विषय हैं और  पढ़ाने के लिए केवल 2 शिक्षक   |   जिनमें एक अतिथि शिक्षक कभी कभी  ही आती हैं  |  ग्राम के पूर्व सरपंच संजू दीवान  ने शिक्षकों को और बढ़ाने की  प्रशासन से मांग की है  |  इस संबंध में प्रधानाध्यापक सुशीला बागरी ने  बताया कि मैं जरूरी मीटिंग अटेंड करने संकुल सरारी गई थी  |  यह मामला  भाजपा के पूर्व मंत्री और वर्तमान नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव के  क्षेत्र का है   |     

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 August 2019

 RAJASWA

कहा भगवान भी समस्याओं से निजात नहीं सकते    मध्यप्रदेश के राजस्व मंत्री गोविन्द राजपूत अपने काम से ज्यादा कुछ तो भी बोलने के कारण ज्यादा सुर्ख़ियों में रहते  |गोविन्द राजपूत ने कहा है कि अगर भगवान राम भी अगर एक बार अवतार ले लें तो वो भी समस्यायों का समाधान नहीं कर पाएंगे  | उन्होंने कहा जहाँ लोग मुख्यमंत्री रहे हैं वहां भी अभी बहुत सारे काम बाकि है।  कमलनाथ की कांग्रेस सरकार के राजस्व मंत्री गोविन्द राजपूत  हमेशा अपने बड़बोलेपन के कारण सुर्ख़ियों में रहते हैं  |अब उनका एक विडिओ वायरल हो रहा हे जिसमे मंत्री राजपूत कह रहे हैं कि भगवान राम भी अगर एक बार अवतार ले लें तो वो भी समस्यायों का समाधान नहीं कर पाएंगे   | जाहिर है जब कोई व्यक्ति लोगों की समस्याओं का समाधान नहीं कर पाता है तो वह इसी तरह के उटपटांग उदाहरण देता है  | इशारे इशारे में गोविन्द राजपूत ने पूर्व और वर्तमान मुख्यमंत्री तक सब पर निशाना साधा और कहा कि बीजेपी और कांग्रेस के मुख्य्मंत्री जहाँ रहे वहां भी  अभी  बहुत काम होना बाकी हैं  |  गोविन्द राजपूत  पिछले दिनों सागर  के सुरखी  में एक सार्वजानिक कार्यक्रम में  शामिल हुए  थे  और वहां उन्होंने ये बयान दिया   | गोविन्द सिंह उन मुख्यमंत्रियों और नेताओं के नाम लेते जो समस्याओं का समाधान नहीं करवा पाते हैं तो ठीक रहता  |  लेकिन  ऐसे में भगवान राम होते तो वे भी समस्यायों का समाधान नहीं कर पाते  | एक कहना दर्शाता है कि गोविन्द राजपूत  भगवान् राम को आज के नेताओं जैसा हल्का मानते हैं |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 August 2019

 BALA BACHAN JII

लड़कियों को धमकाने वाली पुलिस  ये पुलिस कैरियर बर्बाद करती है   कमलनाथ की पुलिस का गुंडों जैसा बर्ताव      मध्यप्रदेश के गृह मंत्री बाला बच्चन जी मध्यप्रदेश का आपने ऐसा वक्त बदला कि आपकी पुलिस लड़कियों को एफआईआर करने और  कैरियर बर्बाद करने की धमकी देती है  | हो सकता है इस पुलिस ने कई लोगों का पहले  कैरियर बर्बाद भी कर दिया हो  |  सरकार बदलने  के बाद उम्मीद तो ये थी कि पुलिस की कार्यप्रणाली में कुछ सुधार आएगा लेकिन ये क्या  | यहाँ तो पुलिस का बर्ताव गुंडों जैसा नजर आ रहा है |  आँख खोल कर देख लें इस खबर को ताकि सनद रहे आपके राज में हो क्या रहा है  |   गृह मंत्री बाला बच्चन जी इस खबर को देखने के बाद आप अपना माथा पकड के बैठ जायेंगे कि आपकी पुलिस कैसे काम करती है  | जिस पुलिस का नारा देशभक्ति और जनसेवा है वो कैसे जनसेवा कर रही है ये आप देख लें  | आपके प्रदेश की बेटियों का पुलिस क्या हाल करती होगी ये उसकी एक बानगी भर है|  इस खबर का सबसे दर्दनाक पहलू ये है कि अपने अधिकारों के लिए संघर्ष कर रही लड़कियों को न्याय दिलवाने के बजाये पुलिस की एक महिला अफसर बदतमीजी करती नजर आयीं उनका बर्ताव असहनीय था  | यहाँ पुलिस बात सुनने या समझाइश देने की बजाये गुंडागर्दी करती नजर आई  |  गृह मंत्री बाला बच्चन जी आपकी ये बदमिजाज पुलिस धमकी देती है कि पूरा करियर चौपट हो जाएगा एक एफआईआर में  | आपकी पुलिस जागरूक लड़कियों से वीडिओ बनाने को मना करती है   | कहती है पूरी पढाई यहीं रह जाएगी एक एफआई आर में   | और फिर पुलिस की महिला अफसर चांटा मरने दौड़ती है |  दूसरी महिला असफर भी लड़कियों को मारने दौड़ती हैं  | बाला बच्चन जी सभ्य समाज की सभ्य पुलिस की करतूत आप भी देख लीजिये |  यह मामला सागर के ड़ॉ हरिसिंह गौर विश्वविद्यालय का है  |  विश्विद्यालय प्रबंधन हॉस्टल के छोटे छोटे कमरों में दो -दो लड़कियों को रखना चाहता है  | और छात्राएं इसका विरोध कर रही हैं  | छात्राओं ने जब अपनी मांग को लेकर विश्वविद्यालय परिसर में सड़क पर  धरना दिया तो अचानक पुलिस आ धमकी  | उसके बाद जो हुआ वो आपने देख ही लिया |  आपकी ये पुलिस गुंडे बदमाशों पर तो कभी इस तरह हावी होती नहीं है लेकिन आम लोगों के साथ इस तरह का बर्ताव कर आपकी सरकार की बदनामी जरूर करवाती है   | गृहमंत्री बाला बच्चन जी ये बेटियां और सभ्य समाज आपको चुनौती देता है कि आप में दम है तो सरेआम लड़कियों के साथ बदतमीजी करने वाली पुलिस अफसर को सबक सिखाएं  | ताकि आम लोगों में यह सन्देश जाए की कोंग्रस सरकार आम लोगों के लिए है  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 August 2019

 DINDHADE HATYA

मृतक पर हत्या सहित दर्ज थे कई मामले    एसडीएम कार्यालय में सुरक्षा  की खुली पोल    सागर में एसडीएम कार्यालय के बाहर पेशी के लिए पहुंचे  एक  युवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई   मृतक  कुछ समय पहले हुए चर्चित रत्तू यादव हत्याकांड में  आरोपी था  और वह जमानत पर बाहर आया था  एसडीएम कार्यालय के बाहर हुए इस गोली कांड ने पुलिस सुरक्षा  की पोल खोल कर रख दी है    सागर में  सिविल लाइन थाना के  एसडीएम कार्यालय के बाहर एक युवक की अज्ञात व्यक्ति  द्वारा गोली मारकर हत्या कर दी गई   बताया जा रहा है की मृतक गोलू उर्फ़ गोलू दबाड़े  आदतन अपराधी था  कुछ समय पहले हुए चर्चित रत्तू यादव हत्याकांड में मृतक आरोपी था   जो की जमानत पर बाहर आया था  अब तक मिली जानकारी के मुताबिक मृतक एसडीएम कार्यालय में पेशी के लिए पहुंचा था  एसपी अमित सांघी ने बताया की कलेक्टर के आदेशानुसार जिलाबदर के तहत  मृतक को एसडीएम कार्यालय में हर हफ्ते सोमवार को हाजिरी लगाने का आदेश हुआ था   उन्होंने बताया की मृतक पर 20-22 आपराधिक मामले चल रहे थे   मृतक साइन करके जैसे ही बाहर आया   तभी 2 बदमाशों ने ताबड़तोड़ गोलियां चलाकर   एसडीएम कार्यालय की सीढ़ियों पर गोलू को दिन दहाड़े मौत के घाट उतार दिया  सरेआम हुए इस गोली कांड से क्षेत्र में सनसनी फैल गयी   वहीं एसडीएम कार्यालय में सुरक्षा के इंतजामों की भी पोल खुल गयी     पुलिस मामले की जांच कर रही है   बदमाशों की पहचान के लिए कार्यालय व परिसर में लगे सीसीटीवी कैमरों की मदद ली जा रही है   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 August 2019

 HATYA KAND

अपराधियों को नहीं  पुलिस का डर   प्रदेश सरकार के मंत्री भले ही आंकड़े प्रस्तुत कर  अपराधों पर कमी आने का दवा कर रहे हो लेकिन  प्रदेश में अपराधी कितने बेखौफ है इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है की  देर रात  अज्ञात लोगों ने फायरिंग कर पिता पुत्री की हत्या कर दी  प्रदेश में हो रही हत्याओं से कमलनाथ सरकार के ऊपर अब सवालिया निशान  खड़ा हो गया है   अवैध बसूली जुआ सट्टा शराब के अवैध परिवहन को पकड़कर  पुलिस अपनी पीठ थपथपाने में लगी है  वही अपराधी बेखौफ होकर कारनामो को अंजाम दे रहे है   पूरे  प्रदेश में आये दिन लूट हत्या डकैती बलात्कार जैसे अपराध घटित हो रहे है  अब तो यही सवाल उठता है की  क्या अपराधियो में पुलिस का डर नही रहा   घटना सागर के तीली गाँव की है जहाँ  देर रात  अज्ञात लोगों ने  पिता पुत्री पर फायरिंग कर हत्या कर दी  बताया जा रहा है की मृतक  बृजेश चौरसिया अपनी पत्नी और पुत्री के साथ कार में कहीं जा रहे थे तभी अज्ञात लोगों द्वारा फायरिंग की गई  पुत्री ने घटनास्थल पर ही दम तोड़ दिया जबकि पत्नी बच गई  संदिग्ध मृतक की पत्नी का कहना है घटना के वक़्त वह  सो रही थी   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 July 2019

रेलवे बीना-इटारसी में सोलर ऊर्जा से बिजली पैदा करेगा

भोपाल रेलवे स्टेशन के बाद अब रेलवे बीना और इटारसी में भी सोलर ऊर्जा से बिजली पैदा करेगा। इसे लेकर रेलवे ने तैयारी शुरू कर दी है। बीना में सोलर प्लांट बनाने का काम शुरू कर दिया है। यहां 1000 मेगावाट बिजली पैदा करने का लक्ष्य रखा गया है। इटारसी में भी सोलर ऊर्जा से बिजली बनाने का प्लान है। लेकिन, बीना में प्रस्तावित प्लांट का काम पूरा होने के बाद इटारसी में काम चालू किया जाएगा। सोलर ऊर्जा से बनने वाली बिजली का उपयोग रेलवे स्टेशन व रेलवे में दफ्तरों में किया जाएगा। इन दो सेक्शनों में बिजली उपयोग करने के बाद जो बिजली बचेगी उसे ओएचई लाइन से जोड़कर ट्रेनों के संचालन में दी जाएगी। भोपाल स्टेशन के प्लेटफार्म के शेडों की छतों पर सोलर पैनल लगाए गए थे। यह काम गुजरात की एक निजी कंपनी को दिया गया था। कंपनी ने पांच प्लेटफार्म के शेडों पर ये पैनल लगवा कर बिजली बनाना शुरू कर दिया है। एक प्लेटफार्म पर 150 मेगावाट बिजली बनाने का लक्ष्य रखा है। इस तरह 750 मेगावाट बिजली बनाने का लक्ष्य है। इसमें से करीब 50 फीसदी बिजली बनने लगी है, जो स्टेशन के उपयोग में खर्च की जा रही है। वहीं भोपाल स्टेशन की तर्ज पर हबीबगंज स्थित डीआरएम दफ्तर की छत पर भी सोलर पैनल लगाए गए हैं, यहां भी बिजली बन रही है जो दफ्तरों में उपयोग की जा रही है। भोपाल रेल मंडल में सोलर पैनल से 1000 मेगावाट बिजली पैदा करने का लक्ष्य रखा गया है। यह बिजली अकेले रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्मों पर लगे शेडों की छतों पर पैनल लगाकर बनाई जानी है। बीना प्लांट में तो अलग से बिजली तैयार की जाएगी। प्लेटफार्मों के शेड पर जो कंपनी सोलर पैनल से बिजली तैयार कर रही है वह रेलवे को फ्री में बिजली नहीं देगी। बल्कि रेलवे को एक यूनिट बिजली के बदले 5 रुपए 20 पैसे तक चुकाने होंगे। ऐसा इसलिए होगा, क्योंकि सिस्टम लगाने का काम निजी कंपनियां कर रही हैं। रेलवे ने इन कंपनियों को केवल प्लेटफार्म के शेड की छतें दी हैं, बाकी का पूरा खर्च कंपनियां ही उठा रही हैं। इसलिए पैदा होने वाली बिजली पर कंपनी का ही हक होगा। रेलवे को शुल्क चुकाकर बिजली खरीदनी होगी। डीआरएम शोभन चौधरी का कहना है सोलर ऊर्जा से बिजली तैयार करने के प्रोजेक्ट पर काम कर रहे हैं। भोपाल में बिजली बनने लगी है। अगला लक्ष्य बीना का है। सोलर ऊर्जा से बिजली बनाने से पर्यावरण को नुकसान नहीं होगा। प्राकृतिक संसाधन के दोहन से भी बच सकेंगे

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 December 2018

पिछड़ा वर्ग महाकुंभ

मुख्यमंत्री ने सागर में हुए पिछड़ा वर्ग महाकुंभ में 15 विभूतियों को किया सम्मानित मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि पिछड़ा वर्ग के लिये राज्य सरकार द्वारा केन्द्र सरकार से राष्ट्रीय आयोग गठित करने और उसे संवैधानिक दर्जा दिलाने का अनुरोध किया जायेगा। पिछड़ा वर्ग के युवाओं में प्रतिभा, क्षमता और योग्यता की कोई कमी नहीं है, इन्हें शिक्षा एवं रोजगार के क्षेत्र में सभी सुविधाएँ मुहैया करवाई जायेंगी। मुख्यमंत्री ने आज सागर के समीप ग्राम बामौरा में पिछड़ा वर्ग महाकुंभ को संबोधित करते हुए यह जानकारी दी। मुख्यमंत्री ने पिछड़ा वर्ग की 15 विभूतियों को म.प्र. रामजी महाजन पिछड़ा वर्ग सेवा राज्य पुरस्कार-2015 प्रदान किये। साथ ही वर्ष 2017-18 म.प्र. लोक सेवा आयोग द्वारा विभिन्न सेवाओं के लिये चयनित पिछड़ा वर्ग के उम्मीदवारों को सम्मानित किया। श्री चौहान ने शासन की विभिन्न योजनाओं के पात्र हितग्राहियों को हितलाभ भी वितरित किये। मुख्यमंत्री ने की पिछड़ा वर्ग कल्याण के लिये महत्वपूर्ण घोषणाएँ अन्य पिछड़ा वर्ग के विद्यार्थियों के लिये इसी शिक्षा सत्र से विकासखण्ड स्तर पर छात्रावास खोले जायेंगे। छात्रावास के प्रारंभ होने तक किराये के भवन में छात्रावास संचालित किये जायेंगे। ·छात्रावास में विद्यार्थी को प्रवेश नहीं मिलने की स्थिति में अगर 2 विद्यार्थी मिलकर किराये के मकान में पढ़ाई करेंगे, तो मकान किराया सरकार देगी।  पिछड़ा वर्ग छात्रवृत्ति के लिये अभिभावक की वार्षिक आय सीमा 75 हजार रूपये को बढ़ाकर 3 लाख रूपये सालाना किया जायेगा। अब एक वर्ष में अन्य पिछड़ा वर्ग के 50 विद्यार्थियों का विदेशी विश्वविद्यालय में चयन होने पर उनकी फीस राज्य सरकार भरेगी। अभी तक विद्यार्थियों की यह संख्या मात्र 10 तक सीमित थी।  पिछड़ा वर्ग के विद्यार्थियों को प्रतिस्पर्धात्मक परीक्षाओं के लिये कोचिंग दिलवायी जायेगी।  पिछड़ा वर्ग के विद्यार्थियों से अब कांऊसिलिंग के समय आय प्रमाण-पत्र नहीं माँगा जायेगा। केवल फीस भरते समय आय प्रमाण-पत्र की जरूरत होगी। ·पिछड़े वर्ग के विद्यार्थियों को दिया जा रहा अनुरक्षण भत्ता दोगुना किया जायेगा। यह वृद्धि मैट्रिक के बाद उच्च शिक्षा संस्थानों में चयन होने तक देय होगी।  कक्षा 12वीं में 70 प्रतिशत अंक लाने वाले अन्य पिछड़ा वर्ग के विद्याथियों को मुख्यमंत्री मेधावी छात्र प्रोत्साहन योजना का लाभ दिया जायेगा। ऐसे विद्यार्थी का चयन किसी उच्च शिक्षा संस्थान में होता है, तो उसकी फीस सरकार देगी।  हर वर्ष पिछड़ा वर्ग के 2 लाख हितग्राहियों को शासन की विभिन्न स्व-रोजगार योजनाओं का लाभ दिया जायेगा।  नरयावली में महाविद्यालय और जरूआखेड़ा में औद्योगिक प्रशिक्षण संस्था (आईटीआई) खोले जायेंगे। अन्य पिछड़ा वर्ग को 5973 करोड़ की आर्थिक सहायता/अनुदान मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार ने अन्य पिछड़ा वर्ग के विकास के लिये 5973 करोड़ रूपये की राशि आर्थिक सहायता और अनुदान के रूप में खर्च की है। राज्य सरकार की यह कोशिश निरंतर जारी रहेगी। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री पिछड़ा वर्ग स्व-रोजगार योजना में पिछले वित्त वर्ष में 111 करोड़ रूपये खर्च कर युवाओं को स्व-रोजगार से लगाया गया है। श्री चौहान ने प्रधानमंत्री फसल बीमा, मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि, समर्थन मूल्य पर अनाज खरीदी, स्व-रोजगार योजनाओं और मुख्यमंत्री असंगठित श्रमिक कल्याण योजना की जानकारी देते हुए अपील की कि 7 मई को अपनी ग्राम पंचायत में आयोजित विशेष ग्राम सभाओं में जरूर शामिल हों। उन्होंने श्रमिक बंधुओं से आग्रह किया कि विशेष ग्राम सभाओं में जाकर अपने पंजीयन का सत्यापन करायें और मुख्यमंत्री असंगठित श्रमिक कल्याण योजना का भरपूर लाभ उठायें। मुख्यमंत्री द्वारा सम्मानित विभूतियाँ मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा महाकुंभ में म.प्र. रामजी महाजन पिछड़ा वर्ग सेवा राज्य पुरस्कार-2015 से श्रीमती कान्ति पटेल, श्रीमती आशा साहू, श्रीमती माया विश्वकर्मा, श्रीमती अलका सैनी, श्रीमती बबीता परमार, श्रीमती यमुना कछावा, श्रीमती प्रीति सेन, सुश्री राजकुमारी कुसुम महदेले (जबलपुर), श्री सूरज सिंह मारण, डॉ जे.के. यादव, श्री राजेश दोडके, डॉ. भगवान भाई पाटीदार, श्री काशीराम यादव और श्री महेन्द्र कटियार को सम्मानित किया। इन विभूतियों को पुरस्कार स्वरूप एक-एक लाख रूपये, स्मृति चिन्ह, प्रशस्ति-पत्र, शॉल-श्रीफल भेंटकर सम्मानित किया गया। स्व. श्री नारायण सिंह डागोर का मरणोपरांत पुरस्कार उनकी धर्मपत्नी श्रीमती चन्द्रादेवी ने प्राप्त किया। पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्रीमती ललिता यादव ने समारोह की अध्यक्षता की। सांसद श्री लक्ष्मीनारायण यादव, पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री गोपाल भार्गव, गृह एवं परिवहन मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह, महापौर श्री अभय दर्रे, बुन्देलखंड विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष डा. रामकृष्ण कुसमरिया, विधायक श्री शैलेन्द्र जैन, श्रीमती पारूल साहू, श्री हरवंश राठौर, श्री प्रदीप लारिया, श्री महेश राय, श्री हर्ष यादव, म.प्र. राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग के अध्यक्ष श्री राधेलाल बघेल, पिछड़ा वर्ग तथा वित्त विकास निगम के अध्यक्ष श्री प्रदीप पटेल एवं अन्य स्थानीय जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 May 2018

ravi jain

  सागर में मोती नगर वार्ड निवासी रवि जैन को मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना ने सफल उद्यमी बना दिया है। इनके सामान्य परिवार का गुजारा फोटो फ्रेमिंग के परिवारिक व्यवसाय से ही अभी तक चलता रहा है। अब रवि उन्नत तकनीक से फोटो फ्रेमिंग करते हैं। इससे अच्छी आमदनी होने लगी है, परिवार की आर्थिक स्थिति बेहतर हुई है, बाजार में रवि की साख भी बढ़ी है।  रवि कुछ समय पहले तक अपने इस परिवारिक व्यवसाय को उन्नत तकनीक एवं नए उपकरणों की सहायता से आगे बढ़ाकर जिला एवं प्रदेश स्तर तक पहुँचाना चाहते थे। आर्थिक स्थिति ऐसी नहीं थी कि वह यह सब कर पाएँ। इसी दौरान उन्हें अखबार एवं रेड़ियो के माध्यम से मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना के बारे पता चला। योजना की सम्पूर्ण जानकारी लेकर रवि ने तुरन्त इस योजना में पंजीयन करवाकर बैंक को ऋण के लिये आवेदन दिया। रवि जैन को व्यवसाय को आगे बढ़ाने के लिए बैंक ने 99 लाख 37 हजार का रूपये का ऋण मिला। इसके साथ-साथ उन्हें सरकार द्वारा मार्जिन मनी की सहायता एवं ब्याज में अनुदान भी मिला। रवि जैन ने योजना में मिली सहायता से नए उपकरण खरीदे और उन्नत तकनीक का प्रयोग कर अपने व्यवसाय का विस्तार किया। आज रवि का कारोबार राज्य स्तरीय हो गया है। कारोबार इतना बढ़ गया है कि अन्य 5 लोगों को भी नियमित रोजगार पर रख लिया है। अब रवि अन्य लोगों को भी मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना का लाभ लेने के लिये प्रेरित कर रहे हैं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 December 2017

choti kating

सागर जिले के बम्होरी शाहपुर गांव में शुक्रवार सुबह एक महिला की चोटी कटने का मामला सामने आया है। महिला कल्लो बाई को बदहवासी की हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना के बाद महिला के सिर में दर्द हो रहा था और उसके चेहरे पर भी खरोंच के निशान हैं। जानकारी के मुताबिक कल्लो बाई पति धनसिंह सेन के अनुसार वे सुबह घर का काम कर रहीं थी। इस दौरान परिवार को खाना खिलाने के बाद वे जैसे ही बाहर निकली इसी दौरान किसी ने पीछे से बाल नोच लिए। पीछे मुडकर देखा तो कोई नहीं था। परिवार वालों का कहना है कि उन्हें तेज चिल्लाने की आवाज आई, इसके बाद जैसे ही वे बाहर निकले तो कल्लो बाई ने बताया कि किसी ने उसके बाल काट लिए है। घटना के बाद वो कुछ देर तक बेहोश हो गई। जिसके परिजन उसे लेकर सानोधा थाना पहुंचे और वहां से 108 एंबुलेंस द्वारा उसे अस्पताल भेजा गया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 August 2017

parul sahu

  सुरखी की युवा विधायक पारुल साहू ने अगला विधानसभा चुनाव लड़ने से इंकार कर दिया है। उन्होंने राष्ट्रीय संगठन महामंत्री रामलाल समेत अन्य भाजपा नेताओं को भी अवगत करा दिया है।  रामलाल इन दिनों प्रदेश के दौरे पर  हैं। वे कल सागर पहुंचे थे। सूत्रों की मानें तो आज सुबह आठ बजे कटनी के लिए रवाना होने से पहले रामलाल सागर के भाजपा कार्यालय ‘धर्मश्री’ में  प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत और सागर संभाग के प्रभारी और प्रदेश उपाध्यक्ष विनोद गोटिया समेत कुछ नेताओं से चर्चा कर रहे थे। इसी बीच सुरखी विधायक पारुल साहू रामलाल से मिलने पहुंचीं। उन्होंने संगठन नेताओं से एकांत में अपनी बात रखने की बात ही।  रामलाल, विनोद गोटिया और सुहास भगत के साथ हुई चर्चा में पारुल साहू ने 2018 का विधानसभा चुनाव लड़ने में असमर्थता जताते हुए कहा कि स्थानीय भाजपा में जो गुटबाजी चल रही है उसके कारण वे अगला चुनाव नहीं लड़ सकतीं। पार्टी अभी से किसी दूसरे नाम पर विचार करना शुरू कर दे। सूत्रों की मानें तो संगठन के नेता उनकी बात सुनकर अवाक रह गए। उन्होंने पारुल साहू को समझाया भी पर पारुल साहू ने कहा कि फिलहाल जो हालात हैं, वे उनके चुनाव लड़ने के लायक नहीं हैं।  भाजपा सूत्रों की मानें तो पारुल साहू ने संगठन नेताओं से मुलाकात के दौरान भाजपा के जिलाध्यक्ष राजा दुबे की शिकायत की और कहा कि वे संगठन के मामलों में पक्षपात कर रहे हैं। उन्होंने जिलाध्यक्ष की कार्यप्रणाली को लेकर कई सवाल भी संगठन नेताओं के सामने उठाए और कहा कि ऐसे लोगों के साथ काम करना मुश्किल हो रहा है। उन्होंने संगठन नेताओं से यह भी कहा कि दस साल से यह सीट कांग्रेस के पास थी। उन्होंने बड़ी मेहनत से चुनाव जीता था पर अब विरोधियों को प्रश्रय दिया जा रहा है।   विधायक पारुल साहू ने कहा मैंने राष्ट्रीय संगठन महामंत्री रामलाल, सुहास भगत और विनोद गोटिया से मुलाकात कर 2018 का चुनाव न लड़ने की बात कही है।   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 May 2017

sharab mp

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सागर जिले की सुरखी विधानसभा के ग्राम बिलहरा में लगभग 115 करोड़ की लागत की परकुल मध्यम सिंचाई परियोजना का भूमि-पूजन किया। परियोजना से 3 हजार 200 हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई होगी और 19 ग्राम लाभान्वित होंगे। इस अवसर पर जिला स्तरीय मुख्यमंत्री स्वच्छता सम्मान समारोह, जिला स्तरीय कृषि विज्ञान मेला, जल अभिषेक, हितग्राही सम्मेलन एवं अंत्योदय मेला का आयोजन भी किया गया। मुख्यमंत्री चौहान ने जिले के जैसीनगर विकासखंड को खुले में शौच मुक्त घोषित किया। मुख्यमंत्री ने परकुल सिंचाई परियोजना सहित यहाँ लगभग 500 करोड़ रूपये लागत के विकास कार्यों का भूमि-पूजन एवं लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने जैसीनगर को तहसील बनाने, राहतगढ़ में आई.टी.आई. खोलने, 20 हजार की आबादी शामिल होने पर बिलहरा को नगर पंचायत बनाने, क्षेत्र में 26 सड़कों की स्वीकृति और बिलहरा में मंगल भवन बनवाने सहित अन्य घोषणाएँ की कृषकों को बढ़ी हुई दर से मिलेगा मुआवजा मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने परकुल मध्यम सिंचाई परियोजना में डूब क्षेत्र में आने वाले कृषकों को बढ़ी हुई दर से मुआवजा राशि दिलाये जाने का आश्वासन दिया है।  मुख्यमंत्री श्री चौहान ने गत 18 अप्रैल को भोपाल में ग्राम बक्स्वाहा के कृषक प्रतिनिधि-मंडल से मुलाकात के दौरान उन्हें बढ़ी हुई दर से मुआवजा राशि दिलाने के लिये नियमानुसार कार्यवाही करने का भरोसा दिलाया।  प्रदेश में अब अवैध शराब की बिक्री नहीं मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में अब अवैध शराब की बिक्री नहीं होगी। उन्होंने ग्रामोदय अभियान में मेहनत एवं ईमानदारी से कार्य करने की अपील की। उन्होंने हड़ताल कर रहे कर्मचारियों से काम पर वापस आने का आव्हान किया।  मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि बुन्देलखंड में सिंचाई की कमी नहीं रहने दी जायेगी। किसानों के लिए सरकार द्वारा कोई कमी नहीं रहने दी जायेगी। उन्होंने कहा कि अब किसानों को एक लाख के ऋण लेने पर 90 हजार ही वापस करना होंगे। किसानों को राहत राशि बाँटने में सरकार ने कोई कमी नहीं छोड़ी है। सरकार ने निर्णय लिया है कि महुआ का फूल प्रदेश में 30 रूपये प्रति किलो से कम कीमत में नहीं बेचा जायेगा। तेंदूपत्ता तोड़ने वाले पुरूषों को जूते और महिलाओं को चप्पल प्रदान की जायेंगी। उन्होंने कहा कि पढ़ाई, लिखाई एवं रोजगार का इंतजाम हर गरीब व्यक्ति के लिए किया जायेगा। प्रदेश की धरती पर किसी गरीब को भूखा नहीं सोने दिया जायेगा। प्रदेश में एक रूपये किलो गेहूँ, चावल एवं नमक प्रदान किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि गरीबों को दीनदयाल रसोई योजना में 5 रूपये में थाली परोसी जा रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी गरीब व्यक्तियों को रहने के लिए जमीन का पट्टा दिया जायेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि 12वीं कक्षा में 75 प्रतिशत से अधिक अंक लाने वाले गरीब बच्चों के मेडिकल, इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रवेश लेने पर सरकार द्वारा फीस भरी जायेगी। शिक्षकों की भर्ती में महिलाओं के लिये 50 प्रतिशत आरक्षण का प्रावधान किया गया है। उन्होंने कहा कि विधानसभा के मानसून सत्र में दुराचारियों का फाँसी का कानून बनाकर राष्ट्रपति को भेजा जायेगा। सांसद श्री यादव ने कहा कि प्रदेश में सिंचाई का रकबा लगातार बढ़ रहा है। सुरखी क्षेत्र भी सिंचाई में आगे बढ़ रहा है। केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा लगातार विकास कार्य किये जा रहे हैं। विधायक श्रीमती पारूल साहू केशरी ने कहा कि आज लोकार्पित और भूमिपूजित कार्यों से क्षेत्र के विकास को गति मिलेगी। इस अवसर पर पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री गोपाल भार्गव, गृह एवं परिवहन मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह, सांसद श्री लक्ष्मीनारायण यादव, विधायक श्री शैलेन्द्र जैन, श्री प्रदीप लारिया, श्री हरवंश सिंह राठौर सहित अन्य जन-प्रतिनिधि मौजूद थे।    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 April 2017

एंटी शराब दल

  मध्यप्रदेश  के केबिनेट मंत्री गोपाल भार्गव के बेटे अभिषेक भार्गव ने  शराबबंदी को लेकर अभियान शुरू किया है और बीजेपी सरकार को नींद से जगाने की कोशिस की है ।मंत्री पुत्र भाजपा युवा मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष अभिषेक भार्गव ने  Facebook  पर लिखा है -जब शराब दुकानों के प्रति प्रदेश की आधी आबादी अर्थात महिलाओं  में इतना आक्रोश है की वे प्रतिदिन अपना विरोध प्रदर्शन कर रही है तब शासन क्यों कुम्भकर्णी नींद सोया हुआ है प्रत्येक छोटे से छोटे मुद्दे पर संवेदनशीलता दिखाने वाला प्रशासन क्या इतने बड़े विरोध को नही देख पा रहा  ।  अभिषेक ने लिखा है मुख्यमंत्री  से व्यक्तिगत तौर पर निवेदन है कृपया मध्य प्रदेश में पूर्ण शराब बंदी शीघ्र लागू करवाने का कष्ट करें ।मध्य प्रदेश की जनता खास करके महिलाये आपको मुख्यमंत्री के तौर पर नही अपने परिवार के सदस्य की तरह देखती है ।आपको हमेशा अपने सुख दुख के साथी की तरह पहचानती है परंतु इतने बड़े मुद्दें पर आपकी ओर से निर्णय न आना उन्हें अचंभे में डालता है ।समय समय पर आपने निश्चित तौर पर शराब खोरी पर लगाम लगाने के लिए साहसिक और लोकप्रिय  निर्णय लिए है परंतु अब वक्त पूर्ण शराब बंदी का निर्णय लेने का है ।मध्यप्रदेश का एक आम नागरिक होने के नाते जो आसपास महिलाओ में शराब के प्रति आक्रोश देख रहा हु उसी के आधार पर सोशल मीडिया के माध्यम से आपको सम्पूर्ण हालात से अवगत करवाना चाहता हूं । राजनीति से हटकर शीघ्र ही पूर्ण शराब बंदी को लेकर तथा हर जगह चल रही अवैध शराब दुकानों (मुझे कहने में कतई परहेज नही है कि प्रशासन की मिली भगत से ) के विरोध में नव रात्रि के पश्चात वृहद आंदोलन शुरू होगा जिसकी शुरुवात स्वयं के गृह नगर गढ़ाकोटा से करूँगा ।युवाओ और मातृ शक्ति को साथ लेकर बनाऊंगा एन्टी शराब दल। हमारी मांग है प्रदेश में लागू हो पूर्ण शराब बंदी ।आशा है हमारे सम्वेदनशील मुख्यमंत्री जी से की वह इस विषय पर विशेष ध्यान देंगे ।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 April 2017

मंत्री ने करवाया अश्लील डांस

  एमपी के सागर जिले के गढाकोटा मे शासकीय खर्चे पर आयोजित रहस मेले मे बुन्देली परम्परा के नाम पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की फोटो लगा कर उसके सामने विदेशी बलाओ के अश्लील डांस परोसे जाने पर प्रदेश भाजपा संघठन ने जताया ऐतराज। प्राप्त जानकारी के अनुसार सागर जिला भाजपा के कई नेताओं ने प्रदेश भाजपा संघठन को बताया कि संत रविदास महाकुंभ 4 मार्च को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की आमसभा से लौटते समय बस दुर्घटना मे भाजपा के चार कार्यकर्ताओं की मौत हुई साथ मे कई घायल भी हुए गृहमंत्री और विधायक सहित पार्टी के सभी वरिष्ठ नेता घायलों के साथ अस्पताल मे मौजूद रहे। जिला भाजपा अपने कार्यकर्ताओं की सडक दुर्घटना मे मौत के कारण शौक में थी वही सागर जिले के मंत्री गोपाल भार्गव रहस मेला मे रात की नृत्यांगनाओ के बीच राई नृत्य और अर्ध नग्न विदेशी बलाओ के डांस देखने मे मग्न थे। मुख्यमंत्री के कार्यक्रम से लोट रहे भाजपा कार्यकर्ताओं की मौत के बाद प्रदेश सरकार के एक जिम्मेदार मंत्री द्वारा इस तरह के रवैये की स्थानीय संघठन के नेताओं प्रदेश संघठन को बुन्देली परम्परा के नाम पर परोसे गये अश्लील नृत्य पर आपत्तिजनक बताकर दखल देने की बात की है।जिला संघठन के नेता ने बातचीत मे यह तक कहा कि जब पूरी पार्टी दुर्घटना के समय अस्पताल मे खडी थी तब मंत्री जी राई नृत्य के आनंद मे सराबोर थे जब कार्यकर्ताओं का अंतिम संस्कार हो रहा था तब विदेशी बालाओ के डांस मे लीन थे। भाजपा कार्यकर्ताओं की मौत के बाद काग्रेस के विधायक हर्ष यादव ने मृतकों की अर्थी को सडक  पर रख कर जाम कर दिया था। इस घटना के बाद प्रदेश संघठन महामंत्री ने उक्त कार्यक्रम के सभी विडियो और फोटो भोपाल तलब किए जाने की खबर है पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के फोटो लगाकर अश्लीलता परोसे जाने पर प्रदेश संघठन की भी आपत्ति बताई जा रही है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  8 March 2017

आवास निर्माण

सागर जिले के गढ़ाकोटा में रहस महोत्सव मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि गरीबों को आवास उपलब्ध करवाने के लिये इस माह 3 लाख गरीबों के खाते में आवास निर्माण की राशि जारी की गयी है। अगले छह माह में 6 लाख और आवासों की राशि दी जायेगी। श्री चौहान आज सागर जिले के गढ़ाकोटा में रहस महोत्सव और आजीविका जिला-स्तरीय महिला सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में महिलाओं के सशक्तीकरण के लिए सरकार हर वह कदम उठायेगी, जो उन्हें सशक्त और आत्म-निर्भर बनायें। राज्य सरकार महिला स्व-सहायता समूह को आगे बढ़ाने को आन्दोलन का रूप देगी। बैंकों के माध्यम से कम ब्याज दर पर ऋण सहायता मुहैया करवायी जायेगी, समूह के जरिए महिलाओं को सशक्त बनाया जायेगा। उन्होंने कहा कि इन समूहों के भाई-बहनों के पास कोई न कोई काम जरूर हो, ताकि बेरोजगारी मिट जायें। बहनों के पास पैसे आयेंगे तो वे सही अर्थों में आत्म-निर्भर होगी और उन्हें आगे बढ़ने का अवसर मिलेगा। उन्होंने कहा कि भारत सरकार की मुद्रा बैंक योजना में ऋण दिलाया जायेगा। श्री चौहान ने बेटियों से मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना का लाभ उठाने को कहा। उन्होंने बताया कि बैंक से लोन लेने पर सरकार गारंटी देगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोई भी गरीब प्रतिभावान छात्र पैसे की कमी के कारण उच्च शिक्षा से वंचित नहीं होगा। उन्होंने कहा गरीब परिवार के प्रतिभावान छात्रों को इंजीनियरिंग, मेडीकल, आईआईटी, आईआईएम जैसे महँगे पाठ्यक्रमों की शिक्षा के लिए सरकार ने बजट में प्रावधान किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में हर भूमिहीन को मकान का स्थाई पट्टा दिया जायेगा। हर गरीब को आवास के लिये जमीन का प्रबंधन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना, मुख्यमंत्री ग्रामीण आवास योजना, ग्रामीण आवास मिशन के जरिये हमारा लक्ष्य है कि किसी भी गरीब को बिना मकान के नहीं रहने दिया जाये। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मौजूद बहनों से पूछा कि आवास का पैसा पंचायत के खाते में डाला जाना चाहिये या सीधे गरीब के खाते में, बहनों ने जोर से कहा हितग्राही के खाते में डाला जायें। उन्होंने कहा कि मासूम के साथ दुराचार करने वाले को फाँसी हो, इसका प्रावधान कर भारत सरकार को भेजा जायेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि माँ नर्मदा के तट पर बसे गाँव में आगामी वर्ष से शराब की दुकानें नहीं खोली जायेगी। उन्होंने कहा कि सरकार नशामुक्ति की दिशा में काम कर रही है। उन्होंने सभी से इसमें सहयोग का आव्हान किया। श्री चौहान ने मौजूद लोगों को नशामुक्ति का संकल्प दिलाया। मुख्यमंत्री ने कहा कि धीरे-धीरे पूरे प्रदेश को नशामुक्ति की तरफ ले जाना है। यह तब होगा जब पीना छोड़ेंगें, गाँव-गाँव में नशामुक्ति सम्मेलन किये जायेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में नगर पालिका, नगर निगम, पंचायतों में बहनों के लिए आधी सीटें आरक्षित कर दी गई हैं। अब प्रदेश में 56 प्रतिशत बहनें पंचायतों में विकास की भागीदारी निभा रही हैं। उन्होंने कहा कि वन विभाग को छोड़कर अन्य विभाग में महिलाओं के लिए 33 प्रतिशत आरक्षण दिया जायेगा। सरकार महिला सशक्तीकरण के लिए हर जरूरी कदम उठायेगी। मुख्यमंत्री ने बताया कि सागर जिले में 78 हजार से ज्यादा परिवार स्व-सहायता समूह से जुड़ गये हैं। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि स्व-सहायता समूह सक्रिय बने, कागजी न रहें। उन्होंने होशंगाबाद और बैतूल जिले के स्व-सहायता समूह का उल्लेख करते हुए कहा कि इन दो जिले के समूहों का वार्षिक टर्नओवर 300 करोड़ रूपये है, जबकि प्रदेश के अन्य सभी जिलों का टर्न ओवर मिलाकर 600 करोड़ है। मुख्यमंत्री ने उद्यानिकी व्यवसायिक शिक्षण संस्थान गढ़ाकोटा तथा बालक छात्रावास भवन का लोकार्पण भी किया। पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री गोपाल भार्गव ने कहा कि राज्य में आजीविका योजना शुरू की गई है। मध्यप्रदेश सरकार महिलाओं को स्वावलंबी बनाने की दिशा में लगातार काम रही है। उन्होंने फेसबुक इंडिया की महिलाओं के सशक्तीकरण का उल्लेख करते हुए कहा कि हमारी सरकार सजग है और लगातार बहनों के विकास और आत्म-निर्भरता के लिए काम कर रही है। श्री भार्गव ने महिलाओं से परिवार में मद्यपान रोकने को कहा। इस अवसर पर अध्यक्ष लद्यु वनोपज संघ श्री महेश कोरी, बुन्देलखण्ड विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष डॉ. रामकृष्ण कुसमरिया एवं उपाध्यक्ष श्री डालचन्द्र पटेल, जिला सहकारी बैंक अध्यक्ष श्री राजेन्द्र जारोलिया, जनपद अध्यक्ष श्री संजय दुबे, नगरपालिका अध्यक्ष श्री भरत चौरसिया, जिला पंचायत अध्यक्ष दमोह श्री शिवचरण पटेल, जनपद अध्यक्ष डॉ. आलोक अहिरवार सहित जन-प्रतिनिधि, पंचायत प्रतिनिधि, बड़ी संख्या में महिला स्व-सहायता समूहों की महिलाएँ तथा ग्रामीणजन मौजूद थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 March 2017

संत रविदास

अनुसूचित-जाति के विकास और कल्याण पर खर्च होंगे 50 हजार करोड़  मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि संत रविदास जी के जीवन पर आधारित पाठ स्कूली पाठ्यक्रम में शामिल किया जायेगा। उन्होंने कहा कि अगले तीन वर्ष में अनुसूचित-जाति के विकास और कल्याण पर 50 हजार करोड़ खर्च किये जायेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज सागर में संत श्री रविदास महाकुंभ को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि बजट में इस साल अनुसूचित-जाति के कल्याण पर 16 हजार 381 करोड़ का प्रावधान किया गया है। उन्होंने बताया कि अगले दो साल में शहरी क्षेत्र में 5 लाख और ग्रामीण क्षेत्र में 10 लाख मकान बनाकर गरीबों को दिये जायेंगे। सागर जिले में 40 हजार मकान इसी वर्ष बनेंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश में हर व्यक्ति को रहने के लिये जमीन और घर उपलब्ध करवाये जायेंगे। जो जहाँ रह रहा है, उसे वहाँ का पट्टा दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि अनुसूचित-जाति वर्ग के छात्र-छात्राओं को शिक्षण के लिये पर्याप्त व्यवस्थाएँ सरकार ने की हैं। छात्रवृत्ति के साथ छात्रावास और आश्रम भी बनाये गये हैं। विदेशों में अध्ययन के लिये विद्यार्थियों का शिक्षण शुल्क भी सरकार भर रही है। उन्होंने कहा कि कोई भी अनुसूचित-जाति का विद्यार्थी धन की कमी के कारण शिक्षा से वंचित नहीं रहेगा। उन्होंने बताया कि 10 संभाग में ज्ञानोदय विद्यालय खोले गये हैं। दिल्ली में यूपीएससी की कोचिंग में प्रवेश लेने पर रहने की व्यवस्था भी सरकार करेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने संत रविदास के व्यक्तित्व और कृतित्व का उल्लेख करते हुए कहा कि वे सभी समाज के संत हैं। वे सामाजिक परिवर्तन के वाहक हैं। उनका जीवन हम सभी के लिये अनुकरणीय है। श्री चौहान ने इस मौके पर सागर जिले की कड़ान मध्यम सिंचाई परियोजना और मकरोनिया में महाविद्यालय खोलने की घोषणा की। सामान्य प्रशासन राज्य मंत्री श्री लाल सिंह आर्य ने कहा कि पहली बार है कि राज्य सरकार ने संत रविदास महाकुंभ का आयोजन किया है। उन्होंने कहा कि गरीबों के लिये यह सरकार निरंतर काम कर रही है। समारोह में वन मंत्री डॉ. गौरीशंकर शेजवार, पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री गोपाल भार्गव, गृह मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह, सांसद श्री लक्ष्मीनारायण यादव, श्री सत्यनारायण जटिया, डॉ. वीरेन्द्र कुमार, विधायक श्री शैलेन्द्र जैन, श्री हरवंश सिंह राठौर, श्रीमती पारुल साहू और श्री महेश राय उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 March 2017

सागर महापौर अभय दरे

    सागर महापौर अभय दरे को नगर निगम ठेकेदार संतोष प्रजापति से कमीशन मांगने का ऑडियो वायरल होने के मामले में नगरीय प्रशासन आयुक्त विवेक अग्रवाल की जांच में दोषी पाए गए हैं। राज्य शासन ने महापौर दरे के वित्तीय और प्रशासनिक अधिकार छीन लिए हैं। शुक्रवार की देर शाम महापौर के खिलाफ ईओडब्ल्यू ने केस दर्ज कर लिया है। , मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के शनिवार को सागर आगमन से ठीक एक दिन पहले की गई कार्रवाई को भाजपा की छवि को बचाने के प्रयास जोड़कर देखा जा रहा है। उधर, यह चर्चा भी तेज हो गई है कि महापौर से पार्टी इस्तीफा मांग सकती है। नगरीय प्रशासन विभाग के आयुक्त विवेक अग्रवाल ने एक दिन पहले गुस्र्वार को महापौर दरे, निगमायुक्त कौशलेंद्र सिंह और निगम के ठेकेदार संतोष प्रजापति को बयानों के लिए भोपाल तलब किया था। देर रात तक तीनों के बयान लिए गए थे। इसके बाद 12 घंटे के भीतर शुक्रवार की सुबह महापौर के वित्तीय और प्रशासनिक अधिकार छीनने का आदेश जारी कर दिया गया। सागर निगम आयुक्त कौशलेंद्र विक्रम सिंह ने शासन से इस आदेश के आने की पुष्टि की है। दरअसल, 21 फरवरी को एक ऑडियो वायरल हुआ था। इसमें कथित रूप से महापौर अभय दरे और निगम के ठेकेदार संतोष प्रजापति के बीच जेसीबी भुगतान को लेकर 25 प्रतिशत कमीशन के लेनदेन की चर्चा के दौरान की रिकॉर्डिंग बताई जा रही थी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मामले को संज्ञान में लेते हुए नगरीय प्रशासन विभाग के आयुक्त विवेक अग्रवाल को जांच का जिम्मा सौंपा था। अभय दरे महापौर के पद पर तो रहेंगे। बत्ती भी लगा सकेंगे, लेकिन जांच पूरी होने तक कोई निर्णय नहीं ले पाएंगे। निगम आयुक्त कौशलेंद्र सिंह ने बताया कि नगरीय प्रशासन के अपर आयुक्त विकास मिश्र के मुताबिक महापौर के वित्तीय और प्रशासनिक अधिकार अगले आदेश तक समाप्त कर दिए हैं। शासन की ओर से आदेश में प्रशासनिक और वित्तीय मामलों की फाइलें और नस्तियां उनके पास न भेजने के निर्देश हैं। वाहन या अन्य सुविधाओं को लेकर कोई उल्लेख नहीं है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शनिवार को सागर में  हैं। उनके आगमन के ठीक एक दिन पहले महापौर पर कार्रवाई से पार्टी और सरकार इस बात का संकेत देना चाहती है कि भ्रष्टाचार या कमीशन के आरोपों से घिरे या आरोपियों पर सरकार सख्त है। ऐसे लोगों को बख्शा नहीं जाएगा। दूसरी ओर भाजपा संगठन के सूत्रों के अनुसार महापौर को मुख्यमंत्री के कार्यक्रम सहित पार्टी के अन्य सार्वजनिक कार्यक्रमों से दूरी बनाने के निर्देश दिए गए हैं। हालांकि शनिवार के कार्यक्रम के लिए छपे आमंत्रण पत्र में बतौर विशिष्ट अतिथि महापौर दरे का नाम भी शामिल है। महापौर फिलहाल भाजपा संगठन में अकेले पड़ गए हैं। उनके साथ न तो कोई जनप्रतिनिधि है और न ही पार्टी पदाधिकारी। उन्हें टिकट दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले विधायक शैलेंद्र जैन से भी उनका मनमुटाव जगजाहिर है। मंत्री गोपाल भार्गव और गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह के समर्थक पार्षदों को एमआईसी से बाहर का रास्ता दिखाने के कारण महापौर इनके भी निशाने पर थे। गृहमंत्री के ही कट्टर समर्थक व निगमाध्यक्ष राजबहादुर सिंह से उनकी तल्खी परिषद से लेकर बैठकों में सामने आ चुकी है। संगठन के नेता और जनप्रतिनिधि उनसे अघोषित रूप से मुक्ति चाहते हैं। इसके अलावा निगम कमिश्नर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह और महापौर अभय दरे पहले भी निगम की पार्किंग एवं राजघाट के मुद्दे सहित कई अन्य मामलों में आमने-सामने आ चुके हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 March 2017

Video

Page Views

  • Last day : 5924
  • Last 7 days : 33929
  • Last 30 days : 111788
All Rights Reserved ©2019 MadhyaBharat News.