Since: 23-09-2009

Latest News :
दिवाली में सिर्फ दो घंटे फोड़ पाएंगे पटाखे.   दुनिया का सबसे लंबा पुल चीन में .   राफेल डील हमारे लिए बूस्टर डोज : वायुसेना चीफ.   नरेंद्र सिंह तोमर की तबीतय बिगड़ी, एम्स में भर्ती.   राम और रोटी के सहारे कांग्रेस .   डीजल-पेट्रोल के दाम में फिर लगी आग.   कमजोर विधायकों के भाजपा काटेगी टिकट.   डिजियाना की स्‍कार्पियो से 60 लाख रुपए जब्‍त.   पेड़ न्यूज़ के सबसे ज्यादा मामले बालाघाट में .   कुरीतियों को समाप्त करने में योगदान करें महिला स्व-सहायता समूह.   गरीबों के बकाया बिजली बिल के माफ हुए 5200 करोड़ :चौहान.   ग्रामीण महिलाओं से संवाद के प्रयास जरूरी : जनसम्पर्क मंत्री डॉ. मिश्र.   साक्षर इलाकों के नामांकन-पत्र ज्यादा होते हैं खारिज.   गिर सकता है 20 फीसद सराफा कारोबार.   सुकमा मुठभेड़ में तीन नक्सली मरे ,नारायणपुर में तीन का समर्पण .   पखांजूर में शुरू होगा नया कृषि महाविद्यालय.   रमन सरकार नक्सलियों को लेकर उदार हुई .   दिग्विजय सिंह बोले -अजीत जोगी के कारण मप्र में हारे थे.  

सागर News


पिछड़ा वर्ग महाकुंभ

मुख्यमंत्री ने सागर में हुए पिछड़ा वर्ग महाकुंभ में 15 विभूतियों को किया सम्मानित मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि पिछड़ा वर्ग के लिये राज्य सरकार द्वारा केन्द्र सरकार से राष्ट्रीय आयोग गठित करने और उसे संवैधानिक दर्जा दिलाने का अनुरोध किया जायेगा। पिछड़ा वर्ग के युवाओं में प्रतिभा, क्षमता और योग्यता की कोई कमी नहीं है, इन्हें शिक्षा एवं रोजगार के क्षेत्र में सभी सुविधाएँ मुहैया करवाई जायेंगी। मुख्यमंत्री ने आज सागर के समीप ग्राम बामौरा में पिछड़ा वर्ग महाकुंभ को संबोधित करते हुए यह जानकारी दी। मुख्यमंत्री ने पिछड़ा वर्ग की 15 विभूतियों को म.प्र. रामजी महाजन पिछड़ा वर्ग सेवा राज्य पुरस्कार-2015 प्रदान किये। साथ ही वर्ष 2017-18 म.प्र. लोक सेवा आयोग द्वारा विभिन्न सेवाओं के लिये चयनित पिछड़ा वर्ग के उम्मीदवारों को सम्मानित किया। श्री चौहान ने शासन की विभिन्न योजनाओं के पात्र हितग्राहियों को हितलाभ भी वितरित किये। मुख्यमंत्री ने की पिछड़ा वर्ग कल्याण के लिये महत्वपूर्ण घोषणाएँ अन्य पिछड़ा वर्ग के विद्यार्थियों के लिये इसी शिक्षा सत्र से विकासखण्ड स्तर पर छात्रावास खोले जायेंगे। छात्रावास के प्रारंभ होने तक किराये के भवन में छात्रावास संचालित किये जायेंगे। ·छात्रावास में विद्यार्थी को प्रवेश नहीं मिलने की स्थिति में अगर 2 विद्यार्थी मिलकर किराये के मकान में पढ़ाई करेंगे, तो मकान किराया सरकार देगी।  पिछड़ा वर्ग छात्रवृत्ति के लिये अभिभावक की वार्षिक आय सीमा 75 हजार रूपये को बढ़ाकर 3 लाख रूपये सालाना किया जायेगा। अब एक वर्ष में अन्य पिछड़ा वर्ग के 50 विद्यार्थियों का विदेशी विश्वविद्यालय में चयन होने पर उनकी फीस राज्य सरकार भरेगी। अभी तक विद्यार्थियों की यह संख्या मात्र 10 तक सीमित थी।  पिछड़ा वर्ग के विद्यार्थियों को प्रतिस्पर्धात्मक परीक्षाओं के लिये कोचिंग दिलवायी जायेगी।  पिछड़ा वर्ग के विद्यार्थियों से अब कांऊसिलिंग के समय आय प्रमाण-पत्र नहीं माँगा जायेगा। केवल फीस भरते समय आय प्रमाण-पत्र की जरूरत होगी। ·पिछड़े वर्ग के विद्यार्थियों को दिया जा रहा अनुरक्षण भत्ता दोगुना किया जायेगा। यह वृद्धि मैट्रिक के बाद उच्च शिक्षा संस्थानों में चयन होने तक देय होगी।  कक्षा 12वीं में 70 प्रतिशत अंक लाने वाले अन्य पिछड़ा वर्ग के विद्याथियों को मुख्यमंत्री मेधावी छात्र प्रोत्साहन योजना का लाभ दिया जायेगा। ऐसे विद्यार्थी का चयन किसी उच्च शिक्षा संस्थान में होता है, तो उसकी फीस सरकार देगी।  हर वर्ष पिछड़ा वर्ग के 2 लाख हितग्राहियों को शासन की विभिन्न स्व-रोजगार योजनाओं का लाभ दिया जायेगा।  नरयावली में महाविद्यालय और जरूआखेड़ा में औद्योगिक प्रशिक्षण संस्था (आईटीआई) खोले जायेंगे। अन्य पिछड़ा वर्ग को 5973 करोड़ की आर्थिक सहायता/अनुदान मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार ने अन्य पिछड़ा वर्ग के विकास के लिये 5973 करोड़ रूपये की राशि आर्थिक सहायता और अनुदान के रूप में खर्च की है। राज्य सरकार की यह कोशिश निरंतर जारी रहेगी। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री पिछड़ा वर्ग स्व-रोजगार योजना में पिछले वित्त वर्ष में 111 करोड़ रूपये खर्च कर युवाओं को स्व-रोजगार से लगाया गया है। श्री चौहान ने प्रधानमंत्री फसल बीमा, मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि, समर्थन मूल्य पर अनाज खरीदी, स्व-रोजगार योजनाओं और मुख्यमंत्री असंगठित श्रमिक कल्याण योजना की जानकारी देते हुए अपील की कि 7 मई को अपनी ग्राम पंचायत में आयोजित विशेष ग्राम सभाओं में जरूर शामिल हों। उन्होंने श्रमिक बंधुओं से आग्रह किया कि विशेष ग्राम सभाओं में जाकर अपने पंजीयन का सत्यापन करायें और मुख्यमंत्री असंगठित श्रमिक कल्याण योजना का भरपूर लाभ उठायें। मुख्यमंत्री द्वारा सम्मानित विभूतियाँ मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा महाकुंभ में म.प्र. रामजी महाजन पिछड़ा वर्ग सेवा राज्य पुरस्कार-2015 से श्रीमती कान्ति पटेल, श्रीमती आशा साहू, श्रीमती माया विश्वकर्मा, श्रीमती अलका सैनी, श्रीमती बबीता परमार, श्रीमती यमुना कछावा, श्रीमती प्रीति सेन, सुश्री राजकुमारी कुसुम महदेले (जबलपुर), श्री सूरज सिंह मारण, डॉ जे.के. यादव, श्री राजेश दोडके, डॉ. भगवान भाई पाटीदार, श्री काशीराम यादव और श्री महेन्द्र कटियार को सम्मानित किया। इन विभूतियों को पुरस्कार स्वरूप एक-एक लाख रूपये, स्मृति चिन्ह, प्रशस्ति-पत्र, शॉल-श्रीफल भेंटकर सम्मानित किया गया। स्व. श्री नारायण सिंह डागोर का मरणोपरांत पुरस्कार उनकी धर्मपत्नी श्रीमती चन्द्रादेवी ने प्राप्त किया। पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्रीमती ललिता यादव ने समारोह की अध्यक्षता की। सांसद श्री लक्ष्मीनारायण यादव, पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री गोपाल भार्गव, गृह एवं परिवहन मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह, महापौर श्री अभय दर्रे, बुन्देलखंड विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष डा. रामकृष्ण कुसमरिया, विधायक श्री शैलेन्द्र जैन, श्रीमती पारूल साहू, श्री हरवंश राठौर, श्री प्रदीप लारिया, श्री महेश राय, श्री हर्ष यादव, म.प्र. राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग के अध्यक्ष श्री राधेलाल बघेल, पिछड़ा वर्ग तथा वित्त विकास निगम के अध्यक्ष श्री प्रदीप पटेल एवं अन्य स्थानीय जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 May 2018

ravi jain

  सागर में मोती नगर वार्ड निवासी रवि जैन को मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना ने सफल उद्यमी बना दिया है। इनके सामान्य परिवार का गुजारा फोटो फ्रेमिंग के परिवारिक व्यवसाय से ही अभी तक चलता रहा है। अब रवि उन्नत तकनीक से फोटो फ्रेमिंग करते हैं। इससे अच्छी आमदनी होने लगी है, परिवार की आर्थिक स्थिति बेहतर हुई है, बाजार में रवि की साख भी बढ़ी है।  रवि कुछ समय पहले तक अपने इस परिवारिक व्यवसाय को उन्नत तकनीक एवं नए उपकरणों की सहायता से आगे बढ़ाकर जिला एवं प्रदेश स्तर तक पहुँचाना चाहते थे। आर्थिक स्थिति ऐसी नहीं थी कि वह यह सब कर पाएँ। इसी दौरान उन्हें अखबार एवं रेड़ियो के माध्यम से मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना के बारे पता चला। योजना की सम्पूर्ण जानकारी लेकर रवि ने तुरन्त इस योजना में पंजीयन करवाकर बैंक को ऋण के लिये आवेदन दिया। रवि जैन को व्यवसाय को आगे बढ़ाने के लिए बैंक ने 99 लाख 37 हजार का रूपये का ऋण मिला। इसके साथ-साथ उन्हें सरकार द्वारा मार्जिन मनी की सहायता एवं ब्याज में अनुदान भी मिला। रवि जैन ने योजना में मिली सहायता से नए उपकरण खरीदे और उन्नत तकनीक का प्रयोग कर अपने व्यवसाय का विस्तार किया। आज रवि का कारोबार राज्य स्तरीय हो गया है। कारोबार इतना बढ़ गया है कि अन्य 5 लोगों को भी नियमित रोजगार पर रख लिया है। अब रवि अन्य लोगों को भी मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना का लाभ लेने के लिये प्रेरित कर रहे हैं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 December 2017

choti kating

सागर जिले के बम्होरी शाहपुर गांव में शुक्रवार सुबह एक महिला की चोटी कटने का मामला सामने आया है। महिला कल्लो बाई को बदहवासी की हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना के बाद महिला के सिर में दर्द हो रहा था और उसके चेहरे पर भी खरोंच के निशान हैं। जानकारी के मुताबिक कल्लो बाई पति धनसिंह सेन के अनुसार वे सुबह घर का काम कर रहीं थी। इस दौरान परिवार को खाना खिलाने के बाद वे जैसे ही बाहर निकली इसी दौरान किसी ने पीछे से बाल नोच लिए। पीछे मुडकर देखा तो कोई नहीं था। परिवार वालों का कहना है कि उन्हें तेज चिल्लाने की आवाज आई, इसके बाद जैसे ही वे बाहर निकले तो कल्लो बाई ने बताया कि किसी ने उसके बाल काट लिए है। घटना के बाद वो कुछ देर तक बेहोश हो गई। जिसके परिजन उसे लेकर सानोधा थाना पहुंचे और वहां से 108 एंबुलेंस द्वारा उसे अस्पताल भेजा गया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 August 2017

parul sahu

  सुरखी की युवा विधायक पारुल साहू ने अगला विधानसभा चुनाव लड़ने से इंकार कर दिया है। उन्होंने राष्ट्रीय संगठन महामंत्री रामलाल समेत अन्य भाजपा नेताओं को भी अवगत करा दिया है।  रामलाल इन दिनों प्रदेश के दौरे पर  हैं। वे कल सागर पहुंचे थे। सूत्रों की मानें तो आज सुबह आठ बजे कटनी के लिए रवाना होने से पहले रामलाल सागर के भाजपा कार्यालय ‘धर्मश्री’ में  प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत और सागर संभाग के प्रभारी और प्रदेश उपाध्यक्ष विनोद गोटिया समेत कुछ नेताओं से चर्चा कर रहे थे। इसी बीच सुरखी विधायक पारुल साहू रामलाल से मिलने पहुंचीं। उन्होंने संगठन नेताओं से एकांत में अपनी बात रखने की बात ही।  रामलाल, विनोद गोटिया और सुहास भगत के साथ हुई चर्चा में पारुल साहू ने 2018 का विधानसभा चुनाव लड़ने में असमर्थता जताते हुए कहा कि स्थानीय भाजपा में जो गुटबाजी चल रही है उसके कारण वे अगला चुनाव नहीं लड़ सकतीं। पार्टी अभी से किसी दूसरे नाम पर विचार करना शुरू कर दे। सूत्रों की मानें तो संगठन के नेता उनकी बात सुनकर अवाक रह गए। उन्होंने पारुल साहू को समझाया भी पर पारुल साहू ने कहा कि फिलहाल जो हालात हैं, वे उनके चुनाव लड़ने के लायक नहीं हैं।  भाजपा सूत्रों की मानें तो पारुल साहू ने संगठन नेताओं से मुलाकात के दौरान भाजपा के जिलाध्यक्ष राजा दुबे की शिकायत की और कहा कि वे संगठन के मामलों में पक्षपात कर रहे हैं। उन्होंने जिलाध्यक्ष की कार्यप्रणाली को लेकर कई सवाल भी संगठन नेताओं के सामने उठाए और कहा कि ऐसे लोगों के साथ काम करना मुश्किल हो रहा है। उन्होंने संगठन नेताओं से यह भी कहा कि दस साल से यह सीट कांग्रेस के पास थी। उन्होंने बड़ी मेहनत से चुनाव जीता था पर अब विरोधियों को प्रश्रय दिया जा रहा है।   विधायक पारुल साहू ने कहा मैंने राष्ट्रीय संगठन महामंत्री रामलाल, सुहास भगत और विनोद गोटिया से मुलाकात कर 2018 का चुनाव न लड़ने की बात कही है।   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 May 2017

sharab mp

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सागर जिले की सुरखी विधानसभा के ग्राम बिलहरा में लगभग 115 करोड़ की लागत की परकुल मध्यम सिंचाई परियोजना का भूमि-पूजन किया। परियोजना से 3 हजार 200 हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई होगी और 19 ग्राम लाभान्वित होंगे। इस अवसर पर जिला स्तरीय मुख्यमंत्री स्वच्छता सम्मान समारोह, जिला स्तरीय कृषि विज्ञान मेला, जल अभिषेक, हितग्राही सम्मेलन एवं अंत्योदय मेला का आयोजन भी किया गया। मुख्यमंत्री चौहान ने जिले के जैसीनगर विकासखंड को खुले में शौच मुक्त घोषित किया। मुख्यमंत्री ने परकुल सिंचाई परियोजना सहित यहाँ लगभग 500 करोड़ रूपये लागत के विकास कार्यों का भूमि-पूजन एवं लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने जैसीनगर को तहसील बनाने, राहतगढ़ में आई.टी.आई. खोलने, 20 हजार की आबादी शामिल होने पर बिलहरा को नगर पंचायत बनाने, क्षेत्र में 26 सड़कों की स्वीकृति और बिलहरा में मंगल भवन बनवाने सहित अन्य घोषणाएँ की कृषकों को बढ़ी हुई दर से मिलेगा मुआवजा मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने परकुल मध्यम सिंचाई परियोजना में डूब क्षेत्र में आने वाले कृषकों को बढ़ी हुई दर से मुआवजा राशि दिलाये जाने का आश्वासन दिया है।  मुख्यमंत्री श्री चौहान ने गत 18 अप्रैल को भोपाल में ग्राम बक्स्वाहा के कृषक प्रतिनिधि-मंडल से मुलाकात के दौरान उन्हें बढ़ी हुई दर से मुआवजा राशि दिलाने के लिये नियमानुसार कार्यवाही करने का भरोसा दिलाया।  प्रदेश में अब अवैध शराब की बिक्री नहीं मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में अब अवैध शराब की बिक्री नहीं होगी। उन्होंने ग्रामोदय अभियान में मेहनत एवं ईमानदारी से कार्य करने की अपील की। उन्होंने हड़ताल कर रहे कर्मचारियों से काम पर वापस आने का आव्हान किया।  मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि बुन्देलखंड में सिंचाई की कमी नहीं रहने दी जायेगी। किसानों के लिए सरकार द्वारा कोई कमी नहीं रहने दी जायेगी। उन्होंने कहा कि अब किसानों को एक लाख के ऋण लेने पर 90 हजार ही वापस करना होंगे। किसानों को राहत राशि बाँटने में सरकार ने कोई कमी नहीं छोड़ी है। सरकार ने निर्णय लिया है कि महुआ का फूल प्रदेश में 30 रूपये प्रति किलो से कम कीमत में नहीं बेचा जायेगा। तेंदूपत्ता तोड़ने वाले पुरूषों को जूते और महिलाओं को चप्पल प्रदान की जायेंगी। उन्होंने कहा कि पढ़ाई, लिखाई एवं रोजगार का इंतजाम हर गरीब व्यक्ति के लिए किया जायेगा। प्रदेश की धरती पर किसी गरीब को भूखा नहीं सोने दिया जायेगा। प्रदेश में एक रूपये किलो गेहूँ, चावल एवं नमक प्रदान किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि गरीबों को दीनदयाल रसोई योजना में 5 रूपये में थाली परोसी जा रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी गरीब व्यक्तियों को रहने के लिए जमीन का पट्टा दिया जायेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि 12वीं कक्षा में 75 प्रतिशत से अधिक अंक लाने वाले गरीब बच्चों के मेडिकल, इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रवेश लेने पर सरकार द्वारा फीस भरी जायेगी। शिक्षकों की भर्ती में महिलाओं के लिये 50 प्रतिशत आरक्षण का प्रावधान किया गया है। उन्होंने कहा कि विधानसभा के मानसून सत्र में दुराचारियों का फाँसी का कानून बनाकर राष्ट्रपति को भेजा जायेगा। सांसद श्री यादव ने कहा कि प्रदेश में सिंचाई का रकबा लगातार बढ़ रहा है। सुरखी क्षेत्र भी सिंचाई में आगे बढ़ रहा है। केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा लगातार विकास कार्य किये जा रहे हैं। विधायक श्रीमती पारूल साहू केशरी ने कहा कि आज लोकार्पित और भूमिपूजित कार्यों से क्षेत्र के विकास को गति मिलेगी। इस अवसर पर पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री गोपाल भार्गव, गृह एवं परिवहन मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह, सांसद श्री लक्ष्मीनारायण यादव, विधायक श्री शैलेन्द्र जैन, श्री प्रदीप लारिया, श्री हरवंश सिंह राठौर सहित अन्य जन-प्रतिनिधि मौजूद थे।    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 April 2017

एंटी शराब दल

  मध्यप्रदेश  के केबिनेट मंत्री गोपाल भार्गव के बेटे अभिषेक भार्गव ने  शराबबंदी को लेकर अभियान शुरू किया है और बीजेपी सरकार को नींद से जगाने की कोशिस की है ।मंत्री पुत्र भाजपा युवा मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष अभिषेक भार्गव ने  Facebook  पर लिखा है -जब शराब दुकानों के प्रति प्रदेश की आधी आबादी अर्थात महिलाओं  में इतना आक्रोश है की वे प्रतिदिन अपना विरोध प्रदर्शन कर रही है तब शासन क्यों कुम्भकर्णी नींद सोया हुआ है प्रत्येक छोटे से छोटे मुद्दे पर संवेदनशीलता दिखाने वाला प्रशासन क्या इतने बड़े विरोध को नही देख पा रहा  ।  अभिषेक ने लिखा है मुख्यमंत्री  से व्यक्तिगत तौर पर निवेदन है कृपया मध्य प्रदेश में पूर्ण शराब बंदी शीघ्र लागू करवाने का कष्ट करें ।मध्य प्रदेश की जनता खास करके महिलाये आपको मुख्यमंत्री के तौर पर नही अपने परिवार के सदस्य की तरह देखती है ।आपको हमेशा अपने सुख दुख के साथी की तरह पहचानती है परंतु इतने बड़े मुद्दें पर आपकी ओर से निर्णय न आना उन्हें अचंभे में डालता है ।समय समय पर आपने निश्चित तौर पर शराब खोरी पर लगाम लगाने के लिए साहसिक और लोकप्रिय  निर्णय लिए है परंतु अब वक्त पूर्ण शराब बंदी का निर्णय लेने का है ।मध्यप्रदेश का एक आम नागरिक होने के नाते जो आसपास महिलाओ में शराब के प्रति आक्रोश देख रहा हु उसी के आधार पर सोशल मीडिया के माध्यम से आपको सम्पूर्ण हालात से अवगत करवाना चाहता हूं । राजनीति से हटकर शीघ्र ही पूर्ण शराब बंदी को लेकर तथा हर जगह चल रही अवैध शराब दुकानों (मुझे कहने में कतई परहेज नही है कि प्रशासन की मिली भगत से ) के विरोध में नव रात्रि के पश्चात वृहद आंदोलन शुरू होगा जिसकी शुरुवात स्वयं के गृह नगर गढ़ाकोटा से करूँगा ।युवाओ और मातृ शक्ति को साथ लेकर बनाऊंगा एन्टी शराब दल। हमारी मांग है प्रदेश में लागू हो पूर्ण शराब बंदी ।आशा है हमारे सम्वेदनशील मुख्यमंत्री जी से की वह इस विषय पर विशेष ध्यान देंगे ।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 April 2017

मंत्री ने करवाया अश्लील डांस

  एमपी के सागर जिले के गढाकोटा मे शासकीय खर्चे पर आयोजित रहस मेले मे बुन्देली परम्परा के नाम पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की फोटो लगा कर उसके सामने विदेशी बलाओ के अश्लील डांस परोसे जाने पर प्रदेश भाजपा संघठन ने जताया ऐतराज। प्राप्त जानकारी के अनुसार सागर जिला भाजपा के कई नेताओं ने प्रदेश भाजपा संघठन को बताया कि संत रविदास महाकुंभ 4 मार्च को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की आमसभा से लौटते समय बस दुर्घटना मे भाजपा के चार कार्यकर्ताओं की मौत हुई साथ मे कई घायल भी हुए गृहमंत्री और विधायक सहित पार्टी के सभी वरिष्ठ नेता घायलों के साथ अस्पताल मे मौजूद रहे। जिला भाजपा अपने कार्यकर्ताओं की सडक दुर्घटना मे मौत के कारण शौक में थी वही सागर जिले के मंत्री गोपाल भार्गव रहस मेला मे रात की नृत्यांगनाओ के बीच राई नृत्य और अर्ध नग्न विदेशी बलाओ के डांस देखने मे मग्न थे। मुख्यमंत्री के कार्यक्रम से लोट रहे भाजपा कार्यकर्ताओं की मौत के बाद प्रदेश सरकार के एक जिम्मेदार मंत्री द्वारा इस तरह के रवैये की स्थानीय संघठन के नेताओं प्रदेश संघठन को बुन्देली परम्परा के नाम पर परोसे गये अश्लील नृत्य पर आपत्तिजनक बताकर दखल देने की बात की है।जिला संघठन के नेता ने बातचीत मे यह तक कहा कि जब पूरी पार्टी दुर्घटना के समय अस्पताल मे खडी थी तब मंत्री जी राई नृत्य के आनंद मे सराबोर थे जब कार्यकर्ताओं का अंतिम संस्कार हो रहा था तब विदेशी बालाओ के डांस मे लीन थे। भाजपा कार्यकर्ताओं की मौत के बाद काग्रेस के विधायक हर्ष यादव ने मृतकों की अर्थी को सडक  पर रख कर जाम कर दिया था। इस घटना के बाद प्रदेश संघठन महामंत्री ने उक्त कार्यक्रम के सभी विडियो और फोटो भोपाल तलब किए जाने की खबर है पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के फोटो लगाकर अश्लीलता परोसे जाने पर प्रदेश संघठन की भी आपत्ति बताई जा रही है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  8 March 2017

आवास निर्माण

सागर जिले के गढ़ाकोटा में रहस महोत्सव मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि गरीबों को आवास उपलब्ध करवाने के लिये इस माह 3 लाख गरीबों के खाते में आवास निर्माण की राशि जारी की गयी है। अगले छह माह में 6 लाख और आवासों की राशि दी जायेगी। श्री चौहान आज सागर जिले के गढ़ाकोटा में रहस महोत्सव और आजीविका जिला-स्तरीय महिला सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में महिलाओं के सशक्तीकरण के लिए सरकार हर वह कदम उठायेगी, जो उन्हें सशक्त और आत्म-निर्भर बनायें। राज्य सरकार महिला स्व-सहायता समूह को आगे बढ़ाने को आन्दोलन का रूप देगी। बैंकों के माध्यम से कम ब्याज दर पर ऋण सहायता मुहैया करवायी जायेगी, समूह के जरिए महिलाओं को सशक्त बनाया जायेगा। उन्होंने कहा कि इन समूहों के भाई-बहनों के पास कोई न कोई काम जरूर हो, ताकि बेरोजगारी मिट जायें। बहनों के पास पैसे आयेंगे तो वे सही अर्थों में आत्म-निर्भर होगी और उन्हें आगे बढ़ने का अवसर मिलेगा। उन्होंने कहा कि भारत सरकार की मुद्रा बैंक योजना में ऋण दिलाया जायेगा। श्री चौहान ने बेटियों से मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना का लाभ उठाने को कहा। उन्होंने बताया कि बैंक से लोन लेने पर सरकार गारंटी देगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोई भी गरीब प्रतिभावान छात्र पैसे की कमी के कारण उच्च शिक्षा से वंचित नहीं होगा। उन्होंने कहा गरीब परिवार के प्रतिभावान छात्रों को इंजीनियरिंग, मेडीकल, आईआईटी, आईआईएम जैसे महँगे पाठ्यक्रमों की शिक्षा के लिए सरकार ने बजट में प्रावधान किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में हर भूमिहीन को मकान का स्थाई पट्टा दिया जायेगा। हर गरीब को आवास के लिये जमीन का प्रबंधन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना, मुख्यमंत्री ग्रामीण आवास योजना, ग्रामीण आवास मिशन के जरिये हमारा लक्ष्य है कि किसी भी गरीब को बिना मकान के नहीं रहने दिया जाये। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मौजूद बहनों से पूछा कि आवास का पैसा पंचायत के खाते में डाला जाना चाहिये या सीधे गरीब के खाते में, बहनों ने जोर से कहा हितग्राही के खाते में डाला जायें। उन्होंने कहा कि मासूम के साथ दुराचार करने वाले को फाँसी हो, इसका प्रावधान कर भारत सरकार को भेजा जायेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि माँ नर्मदा के तट पर बसे गाँव में आगामी वर्ष से शराब की दुकानें नहीं खोली जायेगी। उन्होंने कहा कि सरकार नशामुक्ति की दिशा में काम कर रही है। उन्होंने सभी से इसमें सहयोग का आव्हान किया। श्री चौहान ने मौजूद लोगों को नशामुक्ति का संकल्प दिलाया। मुख्यमंत्री ने कहा कि धीरे-धीरे पूरे प्रदेश को नशामुक्ति की तरफ ले जाना है। यह तब होगा जब पीना छोड़ेंगें, गाँव-गाँव में नशामुक्ति सम्मेलन किये जायेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में नगर पालिका, नगर निगम, पंचायतों में बहनों के लिए आधी सीटें आरक्षित कर दी गई हैं। अब प्रदेश में 56 प्रतिशत बहनें पंचायतों में विकास की भागीदारी निभा रही हैं। उन्होंने कहा कि वन विभाग को छोड़कर अन्य विभाग में महिलाओं के लिए 33 प्रतिशत आरक्षण दिया जायेगा। सरकार महिला सशक्तीकरण के लिए हर जरूरी कदम उठायेगी। मुख्यमंत्री ने बताया कि सागर जिले में 78 हजार से ज्यादा परिवार स्व-सहायता समूह से जुड़ गये हैं। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि स्व-सहायता समूह सक्रिय बने, कागजी न रहें। उन्होंने होशंगाबाद और बैतूल जिले के स्व-सहायता समूह का उल्लेख करते हुए कहा कि इन दो जिले के समूहों का वार्षिक टर्नओवर 300 करोड़ रूपये है, जबकि प्रदेश के अन्य सभी जिलों का टर्न ओवर मिलाकर 600 करोड़ है। मुख्यमंत्री ने उद्यानिकी व्यवसायिक शिक्षण संस्थान गढ़ाकोटा तथा बालक छात्रावास भवन का लोकार्पण भी किया। पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री गोपाल भार्गव ने कहा कि राज्य में आजीविका योजना शुरू की गई है। मध्यप्रदेश सरकार महिलाओं को स्वावलंबी बनाने की दिशा में लगातार काम रही है। उन्होंने फेसबुक इंडिया की महिलाओं के सशक्तीकरण का उल्लेख करते हुए कहा कि हमारी सरकार सजग है और लगातार बहनों के विकास और आत्म-निर्भरता के लिए काम कर रही है। श्री भार्गव ने महिलाओं से परिवार में मद्यपान रोकने को कहा। इस अवसर पर अध्यक्ष लद्यु वनोपज संघ श्री महेश कोरी, बुन्देलखण्ड विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष डॉ. रामकृष्ण कुसमरिया एवं उपाध्यक्ष श्री डालचन्द्र पटेल, जिला सहकारी बैंक अध्यक्ष श्री राजेन्द्र जारोलिया, जनपद अध्यक्ष श्री संजय दुबे, नगरपालिका अध्यक्ष श्री भरत चौरसिया, जिला पंचायत अध्यक्ष दमोह श्री शिवचरण पटेल, जनपद अध्यक्ष डॉ. आलोक अहिरवार सहित जन-प्रतिनिधि, पंचायत प्रतिनिधि, बड़ी संख्या में महिला स्व-सहायता समूहों की महिलाएँ तथा ग्रामीणजन मौजूद थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 March 2017

संत रविदास

अनुसूचित-जाति के विकास और कल्याण पर खर्च होंगे 50 हजार करोड़  मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि संत रविदास जी के जीवन पर आधारित पाठ स्कूली पाठ्यक्रम में शामिल किया जायेगा। उन्होंने कहा कि अगले तीन वर्ष में अनुसूचित-जाति के विकास और कल्याण पर 50 हजार करोड़ खर्च किये जायेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज सागर में संत श्री रविदास महाकुंभ को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि बजट में इस साल अनुसूचित-जाति के कल्याण पर 16 हजार 381 करोड़ का प्रावधान किया गया है। उन्होंने बताया कि अगले दो साल में शहरी क्षेत्र में 5 लाख और ग्रामीण क्षेत्र में 10 लाख मकान बनाकर गरीबों को दिये जायेंगे। सागर जिले में 40 हजार मकान इसी वर्ष बनेंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश में हर व्यक्ति को रहने के लिये जमीन और घर उपलब्ध करवाये जायेंगे। जो जहाँ रह रहा है, उसे वहाँ का पट्टा दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि अनुसूचित-जाति वर्ग के छात्र-छात्राओं को शिक्षण के लिये पर्याप्त व्यवस्थाएँ सरकार ने की हैं। छात्रवृत्ति के साथ छात्रावास और आश्रम भी बनाये गये हैं। विदेशों में अध्ययन के लिये विद्यार्थियों का शिक्षण शुल्क भी सरकार भर रही है। उन्होंने कहा कि कोई भी अनुसूचित-जाति का विद्यार्थी धन की कमी के कारण शिक्षा से वंचित नहीं रहेगा। उन्होंने बताया कि 10 संभाग में ज्ञानोदय विद्यालय खोले गये हैं। दिल्ली में यूपीएससी की कोचिंग में प्रवेश लेने पर रहने की व्यवस्था भी सरकार करेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने संत रविदास के व्यक्तित्व और कृतित्व का उल्लेख करते हुए कहा कि वे सभी समाज के संत हैं। वे सामाजिक परिवर्तन के वाहक हैं। उनका जीवन हम सभी के लिये अनुकरणीय है। श्री चौहान ने इस मौके पर सागर जिले की कड़ान मध्यम सिंचाई परियोजना और मकरोनिया में महाविद्यालय खोलने की घोषणा की। सामान्य प्रशासन राज्य मंत्री श्री लाल सिंह आर्य ने कहा कि पहली बार है कि राज्य सरकार ने संत रविदास महाकुंभ का आयोजन किया है। उन्होंने कहा कि गरीबों के लिये यह सरकार निरंतर काम कर रही है। समारोह में वन मंत्री डॉ. गौरीशंकर शेजवार, पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री गोपाल भार्गव, गृह मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह, सांसद श्री लक्ष्मीनारायण यादव, श्री सत्यनारायण जटिया, डॉ. वीरेन्द्र कुमार, विधायक श्री शैलेन्द्र जैन, श्री हरवंश सिंह राठौर, श्रीमती पारुल साहू और श्री महेश राय उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 March 2017

सागर महापौर अभय दरे

    सागर महापौर अभय दरे को नगर निगम ठेकेदार संतोष प्रजापति से कमीशन मांगने का ऑडियो वायरल होने के मामले में नगरीय प्रशासन आयुक्त विवेक अग्रवाल की जांच में दोषी पाए गए हैं। राज्य शासन ने महापौर दरे के वित्तीय और प्रशासनिक अधिकार छीन लिए हैं। शुक्रवार की देर शाम महापौर के खिलाफ ईओडब्ल्यू ने केस दर्ज कर लिया है। , मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के शनिवार को सागर आगमन से ठीक एक दिन पहले की गई कार्रवाई को भाजपा की छवि को बचाने के प्रयास जोड़कर देखा जा रहा है। उधर, यह चर्चा भी तेज हो गई है कि महापौर से पार्टी इस्तीफा मांग सकती है। नगरीय प्रशासन विभाग के आयुक्त विवेक अग्रवाल ने एक दिन पहले गुस्र्वार को महापौर दरे, निगमायुक्त कौशलेंद्र सिंह और निगम के ठेकेदार संतोष प्रजापति को बयानों के लिए भोपाल तलब किया था। देर रात तक तीनों के बयान लिए गए थे। इसके बाद 12 घंटे के भीतर शुक्रवार की सुबह महापौर के वित्तीय और प्रशासनिक अधिकार छीनने का आदेश जारी कर दिया गया। सागर निगम आयुक्त कौशलेंद्र विक्रम सिंह ने शासन से इस आदेश के आने की पुष्टि की है। दरअसल, 21 फरवरी को एक ऑडियो वायरल हुआ था। इसमें कथित रूप से महापौर अभय दरे और निगम के ठेकेदार संतोष प्रजापति के बीच जेसीबी भुगतान को लेकर 25 प्रतिशत कमीशन के लेनदेन की चर्चा के दौरान की रिकॉर्डिंग बताई जा रही थी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मामले को संज्ञान में लेते हुए नगरीय प्रशासन विभाग के आयुक्त विवेक अग्रवाल को जांच का जिम्मा सौंपा था। अभय दरे महापौर के पद पर तो रहेंगे। बत्ती भी लगा सकेंगे, लेकिन जांच पूरी होने तक कोई निर्णय नहीं ले पाएंगे। निगम आयुक्त कौशलेंद्र सिंह ने बताया कि नगरीय प्रशासन के अपर आयुक्त विकास मिश्र के मुताबिक महापौर के वित्तीय और प्रशासनिक अधिकार अगले आदेश तक समाप्त कर दिए हैं। शासन की ओर से आदेश में प्रशासनिक और वित्तीय मामलों की फाइलें और नस्तियां उनके पास न भेजने के निर्देश हैं। वाहन या अन्य सुविधाओं को लेकर कोई उल्लेख नहीं है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शनिवार को सागर में  हैं। उनके आगमन के ठीक एक दिन पहले महापौर पर कार्रवाई से पार्टी और सरकार इस बात का संकेत देना चाहती है कि भ्रष्टाचार या कमीशन के आरोपों से घिरे या आरोपियों पर सरकार सख्त है। ऐसे लोगों को बख्शा नहीं जाएगा। दूसरी ओर भाजपा संगठन के सूत्रों के अनुसार महापौर को मुख्यमंत्री के कार्यक्रम सहित पार्टी के अन्य सार्वजनिक कार्यक्रमों से दूरी बनाने के निर्देश दिए गए हैं। हालांकि शनिवार के कार्यक्रम के लिए छपे आमंत्रण पत्र में बतौर विशिष्ट अतिथि महापौर दरे का नाम भी शामिल है। महापौर फिलहाल भाजपा संगठन में अकेले पड़ गए हैं। उनके साथ न तो कोई जनप्रतिनिधि है और न ही पार्टी पदाधिकारी। उन्हें टिकट दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले विधायक शैलेंद्र जैन से भी उनका मनमुटाव जगजाहिर है। मंत्री गोपाल भार्गव और गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह के समर्थक पार्षदों को एमआईसी से बाहर का रास्ता दिखाने के कारण महापौर इनके भी निशाने पर थे। गृहमंत्री के ही कट्टर समर्थक व निगमाध्यक्ष राजबहादुर सिंह से उनकी तल्खी परिषद से लेकर बैठकों में सामने आ चुकी है। संगठन के नेता और जनप्रतिनिधि उनसे अघोषित रूप से मुक्ति चाहते हैं। इसके अलावा निगम कमिश्नर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह और महापौर अभय दरे पहले भी निगम की पार्किंग एवं राजघाट के मुद्दे सहित कई अन्य मामलों में आमने-सामने आ चुके हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 March 2017

Video

Page Views

  • Last day : 960
  • Last 7 days : 4527
  • Last 30 days : 41815
Advertisement
All Rights Reserved ©2018 MadhyaBharat News.