Since: 23-09-2009

Latest News :
दिल्ली में हेलिकॉप्टर से पानी के छिड़काव की तैयारी.   अचार, मुरब्बा बनाने की तकनीक दुनिया को करती है उत्साहितः मोदी.   गुजरात में चुनाव दिसम्बर में होने के संकेत.   मीडिया की गति और नियति.   PM मोदी, पूर्व पीएम मनमोहन सिंह की मौजूदगी में रावण दहन .   राज ठाकरे की चुनौती, पहले सुधारो मुुंबई लोकल फिर बुलेट ट्रेन की बात.   कबीर की शिक्षा समाज के लिये संजीवनी : कबीर महोत्सव में राष्ट्रपति श्री कोविंद.   चित्रकूट में एक हजार से अधिक लायसेंसी हथियार जमा.   भावांतर भुगतान योजना में एक लाख 12 हजार से अधिक किसानों द्वारा 32 लाख क्विंटल उपज का विक्रय .   उद्योग संवर्द्धन नीति-2014 में संशोधन की मंजूरी.   मुख्यमंत्री शिवराज के निवास पर दशहरा पूजा.   मानव जीवन के लिए नदी बचाना जरूरी : चौहान.   मूणत CD कांड - फॉरेंसिंक रिपोर्ट आते ही शुरू होगी CBI जांच.   मूणत की CD का सच सीबीआई को सौंपने दिल्ली पहुंची एसआईटी.   पुलिस लाइन रायगढ़ के प्रशासनिक भवन में आग.   बीमार पत्नी से झगड़ा पति, हत्या कर फांसी पर झूला.   बस्तर दशहरा के लिए माई जी को न्यौता.   बस्तर को अलग राज्य बनाने की मांग.  

उमरिया News


modi amrkantak

प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी ने 'नमामि देवि नर्मदे'-सेवा यात्रा के पूर्णता कार्यक्रम में शामिल होने अमरकंटक पहुँचने पर माँ नर्मदा के उदगम-स्थल पहुँचकर पूजा-अर्चना की। उन्होंने नर्मदा जल से आचमन भी किया। प्रधानमंत्री श्री मोदी ने इस मौके पर देश के विकास के लिये माँ से प्रार्थना की। इस दौरान मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान भी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री को उदगम स्थल और वहाँ बने मंदिर के बारे में जानकारी दी।      

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 May 2017

lalbatti shivraj

जबलपुर जिले के बरेला में यात्रा के जन-संवाद में मुख्यमंत्री   मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केन्द्रीय मंत्रीमण्डल का वाहनों से लालबत्ती निकालने के निर्णय का स्वागत करते हुए कहा कि मैं और मेरी टीम तुरंत इस पर अमल करेगी। उन्होंने कहा कि लॉ एण्ड आर्डर की स्थिति में पुलिस और प्रशासन के अधिकारी बत्ती का उपयोग कर सकेंगे। श्री चौहान ने कहा कि संतों के आशीर्वाद और प्रदेशवासियों के सहयोग से माँ नर्मदा को दुनिया की शुद्धतम नदी बनायेंगे। माँ नर्मदा के कारण ही गेहूँ के उत्पादन में हम पंजाब और हरियाणा से आगे निकल सकें हैं। माँ नर्मदा हमें अपने जल से जहाँ जीवन देती है, वहीं रात को रोशनी भी देती है। श्री चौहान ने कहा कि 2 जुलाई को माँ नर्मदा के दोनों तट पर 12 करोड़ पौधे लगाये जायेंगे। उन्होंने कहा कि पौध-रोपण के लिये राजस्व और वन-भूमि चिन्हित कर ली गयी है। मध्यप्रदेश में नशामुक्ति का आंदोलन चलेगा। उन्होंने कहा कि अब रिहायशी इलाकों, शिक्षण संस्थाओं और धार्मिक स्थलों के पास शराब की दुकानें नहीं खुलेंगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान नर्मदा सेवा यात्रा में जबलपुर जिले के नगर पंचायत बरेला में जन-संवाद को संबोधित कर रहे थे। अभियान में आगे संत उसके बाद समाज और फिर सरकार मुख्यमंत्री ने कहा कि इस अभियान में आगे संत उसके बाद समाज और फिर सरकार है। उन्होंने कहा कि हमने माँ ताप्ती, बेतवा और क्षिप्रा की धार को टूटते हुए देखा है। अगर माँ नर्मदा की धार टूटी तो जीवन नहीं बचेगा। मुख्यमंत्री ने लोगों से कहा कि शौच के लिये नर्मदा नदी में नहीं जायें। अंत्येष्टि मुक्तिधाम में ही करें, सिर्फ एक चुटकी राख ही नर्मदा में प्रवाहित करें। मुख्यमंत्री ने बताया कि अगामी मानसून सत्र में मासूमों के साथ दुराचार करने वालों को फाँसी की सज़ा देने संबंधी विधेयक लाया जायेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि यात्रा नर्मदा को बचाने और उसका कर्ज उतारने की यात्रा है। नर्मदा के दोनों तटों के शहरों में ट्रीटमेंट प्लांट बनाये जाएंगे तथा साफ पानी को खेतों में ले जाया जायेगा। उन्होंने संकल्प दिलवाया कि नर्मदा के तटों पर पेड़ लगायें, इसके किनारे के गाँवों में हर घर में शौचालय बनायें, पूजन-सामग्री पूजन कुण्ड में डालें। नर्मदा के किनारे चेंजिंग-रूम और तटों से दूर मुक्तिधाम बनाये जायेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि बेटियों को बचायें और हर बच्चे को स्कूल भेजें। जगतगुरू स्वामी रामानंदाचार्य रामभद्राचार्य ने यात्रा की सराहना की। उन्होंने कहा कि यात्रा अपने उद्देश्यों को जरूर पूरा करेगी। यात्रा के बरेला पहुँचने पर ग्रामीणों ने भारी उत्साह-उमंग, आस्था और श्रद्धा भाव के साथ तथा महिलाओं ने सिर पर कलश लेकर यात्रियों का स्वागत किया। यात्रा में बच्चे, बुजुर्ग, महिलाओं सहित हर वर्ग के लोग शामिल हुए। यात्रा में हुए 'हर-हर नर्मदे' के उदघोष से आसमान गूँज उठा। इसके बाद माँ नर्मदा की महाआरती की गई। इस मौके पर चिकित्सा शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री शरद जैन, विधायक श्री सुशील तिवारी 'इन्दु', श्रीमती प्रतिभा सिंह और श्रीमती नंदिनी मरावी सहित अन्य जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 April 2017

मशीन में  कमल

मध्य प्रदेश कांग्रेस ने प्रदेश के निर्वाचन आयोग पर गंभीर आरोप लगाए हैं। कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता केके मिश्रा ने निर्वाचन आयोग पर भाजपा का एजेंट होने का आरोप लगाया है। इतना ही नहीं उन्होंने मध्य प्रदेश कॉडर की आईएएस अफसर और प्रदेश की मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सलीना सिंह को तत्काल हटाने की मांग की है। कांग्रेस ने एक बार फिर ईवीएम की जगह पर मतपत्रों से अटेर और बांधवगढ़ का चुनाव करवाने की मांग भी की है। मिश्रा ने आज प्रदेश कार्यालय में कहा कि सलीना सिंह अटेर में ईवीएम को चैक करने गई थी। उन्होंनें चार नंबर की बटन दबाई, इसमें वोट भाजपा को जाना बताया गया। कई बार ऐसा हुआ। इसके बाद सलीना सिंह ने वहां पत्रकारों को धमकाया। मिश्रा ने कहा कि उन्हें हटाकर गैर भाजपा, कांग्रेस शासित प्रदेश के किसी अफसर को जिम्मेदारी सौंपी जाए। उन्होंने कल जिस तरह से पत्रकारों को धमकाया है वह उनकी गोपनीय चरित्रावली में दर्ज करते हुए उनके खिलाफ आपराधिक प्रकरण दर्ज किया जाए। कांग्रेस ने प्रमाणित शिकायतें निर्वाचन आयोग को की हैं। गौरतलब है कि यूपी चुनाव के बाद ईवीएम की गड़बड़ी की शिकायतों के बाद चुनाव आयोग ने कहा था कि ऐसा संभव नहीं है। अब चुनाव आयोग के इसी दावे पर सवाल उठने लगे हैं। नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने भी आज भारत निर्वाचन आयोग को पत्र लिखा है। उन्होंने मांग की है कि अटेर और बांधवगढ़ में ईवीएम की जगह पर बैलेट पेपर से वोट कराया जाए। वहीं उन्होंने भी सलीना सिंह को तत्काल हटाने की मांग भारत निर्वाचन आयोग से की है। मामले में कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी भी सक्रिय हो गए हैं। एआईसीसी ने दिल्ली में भारत निर्वाचन आयोग से इस संबंध में शिकायत करने के लिए समय मांगा है। इस शिकायत के लिए प्रदेश कांग्रेस से सभी जरुरी दस्तावेज दिल्ली बुला लिए गए हैं। दस्तावेजों के साथ ही सलीना सिंह का कल सोशल मीडिया पर जारी हुआ एक वीडियो भी एआईसीसी को भेजा गया है। सलीना ने दी  सफाई मध्यप्रदेश की मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सलीना सिंह का कहना है कि अटेर-बांधवगढ़ चुनावों में पहली बार वीवीपेट मशीन का उपयोग हो रहा है। मशीन से मतदाता जान सकेंगे कि उन्होंने जिस उम्मीदवार को वोट दिया है वह उसके पक्ष में गया है या नहीं। भिंड में इस मशीन के डेमो के दौरान बटन दबाए जाने पर एक बार कमल और दूसरी बार पंजे चिन्ह की पर्ची निकल कर आई थी। कुछ लोग इसका दुष्प्रचार कर रहे है। यह मशीन पूरी तरह सुरक्षित है और स्वच्छ एवं निष्पक्ष चुनाव को प्रमाणित करती है। प्रदेश टुडे से चर्चा में सीईओ ने कहा कि भिंड में कलेक्टर और चुनाव आर्ब्जवर, मीडिया की मौजूदगी में मशीन के प्रदर्शन के दौरान दो बार बटन दबाने पर अलग-अलग चुनाव चिन्हों की पर्चियां निकली। मशीन से दो बार मतदाता पर्चियां निकालकर बताई गई।  एक पत्रकार का यह कहना था कि पहली बार में कमल क्यौं निकला। हमने उन्हें बताया कि रेंडम आधार पर पहली बार में कोई भी चुनाव चिन्ह निकल सकता है। इस मशीन के बारे में गलत प्रचार करने पर जेल भेजने का प्रावधान है। मैने यही मीडिया को बताया था। पूरे मामले की रिपोर्ट भारत निर्वाचन आयोग को भेज दी है। मध्यप्रदेश का ईवीएम मशीन वाला वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो चुका है। इसके बाद राष्ट्रीय  स्तर पर भी ईवीएम की निष्पक्षता पर सवाल उठाए जा रहे हैं। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने ट्वीट किया कि ‘बटन कोई भी दबाओ, वोट कमल को पड़ेगा...पर्ची में कुछ भी आए, प्रेस में नहीं आना चाहिए... नहीं तो पत्रकार को थाने में बिठा देंगे। लोकतंत्र खत्म।’ वहीं पत्रकार एक्टिविस्ट आनंद राय ने ट्वीट किया कि ‘मुख्य निर्वाचन अधिकारी सलीना सिंह द्वारा ईवीएम और वीवीपीएटी डिमॉस्ट्रेशन ने भाजपा की पोल खोल दी’। वहीं पत्रकार आशुतोष मिश्रा ने ट्वीट किया ‘ईवीएम में फ्रॉड का पहला और बड़ा सबूत खुद एमपी की मुख्य चुनाव अधिकारी ने दे दिया’।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 April 2017

upchunav

  मतदान 9 एवं मतगणना 13 अप्रैल को    भारत निर्वाचन आयोग ने आज मध्यप्रदेश के भिण्ड जिले के 09-अटेर और उमरिया जिले के 89- बांधवगढ़ (अनुसूचित जनजाति) विधानसभा उप चुनाव की घोषणा की। अटेर और बांधवगढ़ विधानसभा उप चुनाव के लिये 9 अप्रैल को मतदान और 13 अप्रैल को मतगणना होगी। उप चुनाव की घोषणा के साथ ही दोनों उप चुनाव वाले निर्वाचन क्षेत्र में आदर्श आचरण संहिता लागू हो गयी है। घोषित चुनाव कार्यक्रम के अनुसार 14 मार्च को उप चुनाव की अधिसूचना जारी होने के साथ ही नामांकन-पत्र जमा करवाने का सिलसिला शुरू हो जायेगा। नामांकन-पत्र जमा करवाने की अंतिम तिथि 21 मार्च निर्धारित है। नामांकन-पत्रों की जाँच का कार्य 22 मार्च को होगा तथा 24 मार्च तक नामांकन वापस लिये जा सकेंगे। निर्वाचन संबंधी सभी प्रक्रिया 15 अप्रैल तक पूरी कर ली जायेगी। अटेर विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र तत्कालीन विधायक श्री सत्यदेव कटारे के निधन के कारण और बांधवगढ़ विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र तत्कालीन विधायक श्री ज्ञान सिंह के शहडोल संसदीय क्षेत्र से सांसद निर्वाचित होने के कारण रिक्त घोषित किया गया था। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्रीमती सलीना सिंह ने उप चुनाव वाले दोनों जिले के कलेक्टर एवं रिटर्निंग आफीसर को आदर्श आचरण संहिता का पालन करवाने के निर्देश दिये हैं। होली त्यौहार को देखते हुए दोनों निर्वाचन क्षेत्र में मिलन समारोह एवं अन्य कार्यक्रम में राजनैतिक व्यक्तियों की भागीदारी पर विशेष नजर रखने को कहा गया है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 March 2017

 अंत्योदय-हितग्राही सम्मेलन

मुख्यमंत्री  चौहान उमरिया जिले के नौरोजाबाद में अंत्योदय-हितग्राही सम्मेलन में  मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रदेश की ऐसी सभी विधवा महिलाओं को जो किसी भी सेवा में नहीं है उन्हें पेंशन दी जायेगी। उन्होंने कहा कि पेंशन राशि वितरण में गरीबी रेखा का बंधन नहीं होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोई प्रतिभावान छात्र पैसे की कमी के कारण उच्च शिक्षा से वंचित नहीं होगा। उन्होंने कहा कि गरीब परिवार के छात्रों की इंजीनियरिंग मेडिकल, आईआईटी, आईआईएम जैसे महँगे पाठयक्रमों की शिक्षा के लिए बजट में 500 करोड़ रूपये की राशि का प्रावधान किया गया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज उमरिया जिले के नौरोजाबाद में अन्त्योदय मेले एवं हितग्राही सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि मध्यप्रदेश में सालों से काबिज लोगों को मकान का स्थाई पट्टा दिया जायेगा वहीं गरीबों को मकान बनाने के लिए राशि भी मुहैया करवाई जायेगी । उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश में जिस भी व्यक्ति ने जन्म लिया है उसका आशियाना होगा ताकि वह परिवार सहित सुखी जीवन व्यतीत कर सके । मुख्यमंत्री ने बताया कि आदिवासी अधिकार यात्रा आदिवासियों की भूमि पर अवैध कब्जों को हटाया जायेगा तथा आदिवासियों को उनकी भूमि पर काबिज किया जायेगा । मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2017 का साल गरीब कल्याण वर्ष के रूप में मनाया जायेगा। इस वर्ष प्रदेश सरकार गरीबों के कल्याण के कार्यों को सर्वोच्च प्राथमिकता देगी। उन्होंने कहा कि मेरी सरकार सबसे पहले गरीबों की सरकार है। गरीबों के आँखों में कभी आँसू नहीं आने दूँगा। मैं उनके सुख दुख में सदैव भागीदार रहा हूँ और रहूँगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना में सामूहिक विवाह कार्यक्रम आयोजित करने को कहा। मध्यप्रदेश में महिलाओं के सामाजिक, आर्थिक और शैक्षणिक विकास के लिए निरंतर प्रयास किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण के लिए स्व-सहायता समूहों को सशक्त बनाया जा रहा है। महिलाओं को आर्थिक गतिविधियों से सीधे जोड़ा जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि नौरोजाबाद नगर में सालों से काबिज 1500 परिवारों को आज स्थायी पट्टे मुहैया करवाये जा रहे हैं । नौरोजाबाद नगर की पेयजल की समस्या के निराकरण के लिए 18 करोड़ रूपये की राशि मुहैया कराई गई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि नौरोजाबाद नगरपालिका क्षेत्र में गरीब परिवारों के लिए 200 मकान बनाये जायेंगे। इसके लिए 10 करोड की राशि नगरपालिका को मुहैया करा दी गई है। मुख्यमंत्री ने मेले में 17 हजार 743 हितग्राहियों को 76 करोड़ 81 लाख की राशि के हितलाभों का वितरण किया। मुख्यमंत्री ने लगभग 82 करोड रूपये के निर्माण कार्यों का लोकार्पण एवं भूमि-पूजन किया। सम्मेलन में प्रभारी मंत्री श्री ओमप्रकाश धुर्वे, सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्यम राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री संजय पाठक, अध्यक्ष नगरपालिका नौरोजाबाद श्रीमती सुमन गौटिया, बड़ी संख्या में हितग्राही और नागरिक उपस्थित थे ।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 March 2017

दुर्गेश रायकवार

दुर्गेश रायकवार   नौकरी की चाह में भटकने वाले उमरिया के राहुल अग्निहोत्री आज 30 से 35 बेरोजगार युवक-युवतियों को प्रतिदिन काम उपलब्ध करवा रहे हैं। यह संभव हो सका है पं. दीनदयाल उपाध्याय रोजगार योजना के जरिये।  उमरिया में बाँधव ग्रुप के 40 वर्षीय राहुल अग्निहोत्री ने 10 साल पहले वन विभाग में 1600 रुपये में मजदूरी का काम शुरू किया था, जो बाद में बढ़कर 5000 प्रतिमाह तक पहुँचा था। जैसे-तैसे घर-परिवार चलाते समय उनकी मुलाकात शाहिद अली से हुई। दोनों ने भविष्य की चिंता करते हुए उद्योग-धंधे के लिये सरकार द्वारा दी जा रही मदद का फायदा लेने की सोची। महाप्रबंधक उद्योग ने पं. दीनदयाल उपाध्याय रोजगार योजना के तहत वर्ष 2016 में एसबीआई से 10 लाख का लोन स्वीकृत करवाया। इसमें 5 लाख टर्न लोन और 5 लाख सी.सी. लोन शामिल था। दोनों ने घर, परिवार और दोस्तों की मदद से 5 लाख की और व्यवस्था कर कुल 15 लाख की लागत से जिला मुख्यालय में किराये के मकान में रेडीमेड मेन्युफेक्चरिंग गारमेंट का व्यवसाय शुरू किया। ग्राहकों को प्रभावित करने की व्यावसायिक कला और अच्छा सामान देने के प्रयास से प्रथम वर्ष में ही परिवार का खर्च निकालने के बाद 10 से 15 हजार रुपये महीने की आय होने लगी। आज स्थिति यह है कि 30 से 35 बेरोजगार युवक-युवती को 10 से 15 हजार रुपये प्रतिमाह और घरेलू महिलाओं को 6 से 7 हजार रुपये प्रतिमाह का काम उपलब्ध करवा रहे हैं। बैंक का टर्न लोन महज एक वर्ष में ही पटा दिया। आज 70 से 80 लाख के वार्षिक टर्न-ओवर पर व्यवसाय पहुँच चुका है। बाँधव ग्रुप कम्पनी में 30 कारीगर में 14 महिलाएँ सिलाई का काम कर रही हैं। यहाँ के कामगारों में भी राहुल और शाहिद के व्यवहार का जादू चलता है। कारीगर राजेश वर्मा ने बताया कि पहले जहाँ छोटे-मोटे सिलाई के काम करके रोजी-चलाया करता था, अब वह 15 से 20 हजार रुपये प्रतिमाह महज क्लॉथ कटिंग का काम कर कमा रहा है। इसी प्रकार कु. रुखसार फातिमा, श्रीमती सीता कोरी, श्रीमती अनीता बर्मन, श्री विपिन तिवारी जैसे 30 बेरोजगार स्व-रोजगार पाकर भरण-पोषण में सक्षम हुए हैं। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान का सपना भी है कि प्रदेश का युवा रोजगार लेने वाला नहीं, देने वाला बने। उन्होंने कई बार कहा है कि प्रदेश का युवा दर-दर नौकरी की तलाश में न भटके और ऐसा काम करे, जिससे वह अन्य दूसरे बेरोजगारों को भी नौकरी दे सके। इसके लिये उन्होंने विभिन्न योजनाएँ चलायी हैं, जिसका लाभ लोग निरंतर ले रहे हैं। इसी में से एक पं. दीनदयाल उपाध्याय रोजगार योजना का जीता-जागता उदाहरण राहुल अग्निहोत्री और शाहिद अली ने दिया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 February 2017

narmda

जीवन के संस्कारों से जोड़ रही है नर्मदा यात्रा  जन और जीवन में सुख, शांति, आनंद, समृद्धि, विकास और खुशहाली के लिए हमें एक बार फिर अपनी देशज परम्पराओं को अपनाना होगा। हमें भारतीय जीवन के उन संस्कारों को अपनी जीवन-चर्या में पुन: शामिल करना होगा, जिन्हें आज उपेक्षित किया जाता है। एक अहम् उद्देश्य के साथ आरंभ हुई नर्मदा सेवा यात्रा अपने मकसद से जुड़े ये संदेश जबलपुर जिले के विकासखंड शहपुरा के ग्राम डुड़वारा, ललपुर और बगरई में ग्रामीण जनों तक पहुँचाने में सफल हुई। विचार और चेतना के अनुष्ठान के रूप में जारी नर्मदा सेवा यात्रा तीसरे सप्ताह के अंतिम दिन लम्हेटी ग्राम से ध्वज पूजन और आरती के बाद ग्राम डुड़वारा के लिए रवाना हुई। इसके पूर्व सुबह शनि मंदिर के पास श्रमदान द्वारा लम्हेटी घाट की साफ-सफाई की गई। यात्रा के दौरान विचारकों, समाजसेवियों और जन-प्रतिनिधियों ने कहा कि यात्रा आम लोगों को जीवन के संस्कारों से जोड़ रही है। ग्रामीणों को समझाया गया कि संस्कार स्व-प्रेरणा से अपने जीवन में उतारे जाते हैं। लोगों से कहा गया कि स्व-इच्छता से ही स्वच्छता होगी, किसी नियम-कानून से नहीं। स्वच्छता का संस्कार हमें खुले में शौच करने से रोकेगा तथा नदियों में पूजन-सामग्री विसर्जित करने की जगह विसर्जन कुंडों का उपयोग करने की प्रेरणा देगा। यात्रा-दल ग्रामवासियों को यह समझाने में सफल हुआ कि हमारे संस्कारों और हमारी आवश्यकताओं में बहुत बारीक लेकिन मजबूत रिश्ता है। ये आपस में गुँथी हुई हैं। वृक्ष हमारे मित्र है। वृक्ष वर्षा का जल संचित करते हैं। वृक्षों से वर्षा होती है। खेती वर्षा पर निर्भर है। श्रमदान से स्वच्छता संभव है तो अच्छी सेहत इसका पुरस्कार है। ग्राम डुड़वारा के शासकीय स्कूल के मैदान में रैली और वृक्षारोपण के बाद कृषि संगोष्ठी में ग्रामवासियों को समझाईश दी गई कि रासायनिक खादों से अपने खेतों को बंजर बनाने की जगह जैविक खेती की देशज परम्परा अपनायें। ग्राम ललपुर के पंचायत भवन में हुए जन-संवाद में दल ने गाँव के लोगों को सलाह दी कि स्थानीय आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए विकास की योजनाएँ तैयार करें। इसके अच्छे परिणाम सामने आयेंगें। ग्राम बगरई में माँ नर्मदा की सांध्य आरती के पूर्व गाँव के लोगों से बरसात की हर बूँद सहेजने का आग्रह किया गया। यात्रा लम्हेटी से शुरू होकर डुड़वारा और ललपुर होते हुए बगरई में रात्रि विश्राम के लिए रुकी। यात्रा मार्ग पर दोनों ओर खड़े लोगों और रास्ते के छोटे गाँव-टोलों के निवासियों ने पुष्प-वर्षा और अक्षत-टीका लगाकर यात्रियों का स्वागत किया। महिलाएँ सिर पर मंगल-कलश सजाये मंगलाचरण के गीत गा रही थीं। बड़ी संख्या में स्कूलों और आँगनवाड़ियों के बच्चे सामाजिक मुद्दों से जुड़े नारों की तख्तियाँ लिए नजर आ रहे थे। जगह-जगह स्वागत द्वार और घरों पर तोरण सजाये गये थे। प्रतिपल नर्मदा- वंदन के सस्वर जयघोष यात्रियों को दोगुने उत्साह से भर रहे थे। साधु-साध्वियों की कीर्तन प्रस्तुतियाँ वातावरण को नया रंग दे रही थी। घरों के सामने महिलाओं और बालिकाओं ने सम-सामयिक और ज्वलंत मुद्दों पर भी बहुत आकर्षक रांगोलियाँ बनाई थीं। यात्रा में महामंडेलश्वर स्वामी अखिलेश्वरानंद गिरि जी, बरगी विधायक श्रीमती प्रतिभा सिंह, जिला भाजपा ग्रामीण अध्यक्ष श्री शिव पटेल, शहपुरा जनपद पंचायत अध्यक्ष श्री अभिषेक सिंह और मुख्यकार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्रीमती हर्षिका सिंह शामिल थी।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 December 2016

13 बाघों की मौत

मध्य प्रदेश के दो राष्ट्रीय उद्यानों में पिछले एक साल में विषाक्तता, बिजली का झटका लगने और दूसरे कई कारणों से कम से कम 13 बाघ मर चुके हैं। राज्य वन विभाग ने एक RTI का जवाब देते हुए बताया कि पेंच राष्ट्रीय उद्यान में नौ बाघों की मौत हो गयी जबकि बांधवगढ़ राष्ट्रीय उद्यान में चार बाघ मारे गए। पेंच उद्यान को मोगली के घर के तौर पर जाना जाता है जो अंग्रेज लेखक रुडयार्ड किपलिंग के फिक्शन उपन्यास 'जंगल बुक' का मुख्य किरदार है। राज्य के राष्ट्रीय उद्यानों में बाघों के शिकार के मामलों की जांच की मांग को लेकर मध्य प्रदेश हाई कोर्ट में एक जनहित याचिका दायर करने वाले वन्यजीव कार्यकर्ता अजय दुबे ने सूचना का अधिकार आवेदन देकर पिछले एक साल में मारे गए बाघों के ब्यौरे मांगे थे। वन विभाग ने विषाक्तता, बिजली का झटका लगना, बीमारी, दूसरे बाघों से लड़ाई और कुएं में डूबने को बाघों के मारे जाने की वजह बताया है। मध्य प्रदेश में छह बाघ अभयारण्य हैं जिनमें कान्हा, बांधवगढ़, पन्ना, बोरी-सतपुडा , संजय-दुबरी और पेंच शामिल हैं। इन अभयारण्यों में करीब 257 बाघ हैं। 2010 में देश में बाघों की आबादी 1,706 थी और 2014 में यह बढ़कर 2,226 हो गयी। बाघों की आबादी के लिहाज से कर्नाटक और उत्तराखंड के बाद मध्य प्रदेश तीसरे स्थान पर आता है। भारतीय वन्यजीव संरक्षण सोसायटी के आंकड़ों के मुताबिक साल 2016 में करीब 100 बाघों की मौत हो चुकी है। जिनमें से 36 बाघों को शिकार करने के लिए मारा गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 October 2016

madhyprdesh अंत्योदय मेला

सुंदरदादर में खण्ड-स्तरीय अंत्योदय मेला में मुख्यमंत्री  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उमरिया जिले के ग्राम सुंदरदादर में खण्ड-स्तरीय अंत्योदय मेला-सह-दिव्यांग शिविर में कहा कि विकास कार्यों में सभी जन-सहभागी बनें। उन्होंने कहा कि शासन की जन-कल्याणकारी योजनाओं का लाभ लेने के लिये आगे आयें। मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों को बैंकों से शून्य प्रतिशत ब्याज पर कर्ज दिया जाता है। इसके साथ ही मूलधन का 10 प्रतिशत सरकार भरेगी, किसानों को मात्र 90 प्रतिशत कर्ज जमा करना होगा। मुख्यमंत्री ने 2932 लाख की लागत के कार्यों का भूमि-पूजन एवं लोकार्पण किया। उन्होंने 2041 हितग्राही को 312 लाख 78 हजार रुपये के हित-लाभ पत्र वितरित किये। घोषणाएँ मुख्यमंत्री ने अंत्योदय मेले में ग्राम सुंदरदादर में विद्युत सब-स्टेशन बनाने, क्रीड़ा परिसर बनवाने, सेंट्रल बैंक स्थापित करवाने, पाली के वार्ड-1 एवं 4 में सामुदायिक भवन बनवाने और प्रत्येक ग्राम पंचायत में दो-दो कार्य प्रारंभ करवाने की घोषणा की। विधायक  मीना सिंह ने क्षेत्र में किये जा रहे विकास कार्यों की जानकारी दी। इस मौके पर सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग (स्वतंत्र प्रभार), राज्य मंत्री  संजय पाठक सहित अन्य जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।            

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 October 2016

shivraj singh dance

विंन्ध्य मैकल लोक रंग कलाओं से अभिभूत हुए मुख्यमंत्री  मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने उमरिया में विंन्ध्य मैकल लोक रंग समारोह का शुभारंभ जय बड़ा देव, जय महादेव की पूजा-अर्चना से किया। लोक कला के अद्भुत संगम में कलाकारों की अलग-अलग टोलियों के मध्य मुख्यमंत्री ने ढोल एवं शैला बजाकर सुरताल मिलाते हुए नृत्य किया। विंन्ध्य मैकल नाद से जहाँ एक ओर स्टेडियम गुँजायमान हुआ वहीं दूसरी ओर दर्शक कलाओं से अभिभूत होते रहे। इस अवसर पर जिला प्रभारी मंत्री  ओम प्रकाश धुर्वे, अनुसूचित जाति-जनजाति कल्याण मंत्री  ज्ञान सिंह, पिछड़ा वर्ग एवं वित विकास निगम के अध्यक्ष  प्रदीप पटेल, विधायक  मीना सिंह, नगर पालिका अध्यक्ष  कंचन खट्टर, उपाध्यक्ष  राजेंद्र कोल और नगर पालिका अध्यक्ष पाली  प्रकाश पालीवाल उपस्थित थे। मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि पैसे से खुशी नहीं मिलती, बहुत पैसे वालों को दुखी देखा हूँ। मुख्यमंत्री ने कहा कि खुश रहना सीखना है तो अनुसूचित जनजाति के लोगों से सीखे। उनका जीवन हर रंग में तरंग भरता है। जीवन का आनंद कलाकारों से ही सीखा जा सकता है। इसीलिए प्रदेश में आनंद विभाग खोला गया है। मुख्यमंत्री ने इस दौरान प्रख्यात आदिवासी कलाकारों को शाल से सम्मानित किया। उन्होंने प्रत्येक कला दल को 25-25 हजार रूपये की सम्मान निधि देने की घोषणा की। उन्होंने बैगा समुदाय के लिए एवं रानी दुर्गावती की स्मृति में 50-50 लाख रूपये की लागत के सामुदायिक भवन का शिलान्यास किया। मुख्यमंत्री ने शबरी माँ की प्रतिमा लगाने, लोक कला केंद्र की स्थापना, डिण्डौरी में कला संग्रहालय, अनपूपुर बीजापुरी में स्मृति भवन और भोपाल में कला संग्रहालय बनाने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि प्रत्येक वर्ष उमरिया में विंन्ध्य मैकल लोक रंग का आयोजन किया जाएगा। शुरूआत में मुख्यमंत्री का मोर पंख लगाकर स्वागत किया गया। इस दौरान काष्ठ शिल्प, भृत्त शिल्प आदि कलाकृतियों का अवलोकन करते हुए मुख्यमंत्री ने कलाकारों की सराहना की।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 September 2016

गरीबों को जमीन का अधिकार और आवास भी देगी सरकार

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि सरकार न केवल गरीब को घर बनाने के लिये जमीन का अधिकार दे रही है, बल्कि सबके लिये आवास योजना में हर परिवार को मकान निर्माण के लिये सहायता भी दी जायेगी। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में गरीबों के लिये लगभग 8 लाख मकान बनाये जायेंगे। मुख्यमंत्री  चौहान  उमरिया जिले के करकेली जनपद पंचायत की ग्राम पंचायत अखड़ार में जिला-स्तरीय अंत्योदय मेला, हितग्राही सम्मेलन और जनदर्शन कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। इस मौके पर आदिम-जाति कल्याण मंत्री  ज्ञान सिंह और खाद्य-नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण तथा जिला प्रभारी मंत्री ओमप्रकाश धुर्वे उपस्थित थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अनुसूचित जाति-जनजाति के शिक्षित युवाओं को अखिल भारतीय-स्तर की प्रतियोगिताओं में कोचिंग दिलवाने की योजना लागू की गयी है। इसमें मण्डला जिले के 20 आदिवासी वर्ग के बेटा-बेटी ने आईआईटी और मेडिकल की प्रवेश परीक्षाओं में उत्तीर्ण होकर प्रदेश का नाम रोशन किया है।   सिंचाई के लिये महानदी का पानी पहुँचेगा खेतों में मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि महानदी का पानी खेतों में सिंचाई के लिये पहुँचाया जायेगा। महानदी पर वृहद पुल का काम शुरू हो गया है। अब चंदिया से जबलपुर के लिये रास्ता आसान होगा। उन्होंने कहा कि पेयजल की सुविधा के लिये 64 गाँव में सामूहिक योजना में घर-घर पाइप लाइन के जरिये पानी पहुँचाया जायेगा। उन्होंने ग्राम अखड़ार में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र खोलने तथा साई ग्राउण्ड अखड़ार में मिनी स्टेडियम निर्माण की घोषणा की। 11 करोड़ से ज्यादा के हितलाभ पत्र वितरित श्री चौहान ने जिला-स्तरीय अंत्योदय मेला एवं हितग्राही सम्मेलन में 19 हजार 563 हितग्राही को 11 करोड़ 19 लाख की सहायता राशि वितरित की। उन्होंने मंच से प्रतीक स्वरूप हर विभाग की योजनाओं से पाँच-पाँच हितग्राही को हितलाभ पत्र वितरित किये। 48 करोड़ के निर्माण कार्यों का लोकार्पण एवं शिलान्यास मुख्यमंत्री  चौहान ने 48 करोड़ 11 लाख रुपये लागत के निर्माण कार्यों का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। इसमें 45 करोड़ 75 लाख लागत के 13 निर्माण कार्य का शिलान्यास तथा 2 करोड़ 36 लाख लागत के निर्माण कार्य का लोकार्पण शामिल है। मुख्यमंत्री ने कुष्ठ आश्रम में कुष्ठ रोगियों की सेवा की  मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि पीड़ित मानवता की सेवा ही भगवान की सेवा है। पीड़ितों की सेवा के लिये राज्य सरकार कृत संकल्प है। उन्होंने कहा कि कुष्ठ रोग पीड़ित व्यक्तियों की पुनर्वास राशि एक हजार से बढ़ाकर पाँच हजार रुपये प्रति माह की जायेगी। साथ ही उनके बच्चों की शिक्षा और रोजगार में भी सहायता की जायेगी। श्री चौहान भोपाल में महात्मा गाँधी कुष्ठ रोग आश्रम में कुष्ठ रोग पीड़ितों की सेवा के अवसर पर बोल रहे थे।    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 September 2016

mukhymantri shivraj singh

    मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि समाज में जो सबसे पीछे और सबसे नीचे है उनका विकास कर उन्हें मुख्य-धारा में लाना प्रदेश सरकार की पहली प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की धरती पर किसी को भूखा नहीं सोने देंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान उमरिया में 35 करोड़ 45 लाख लागत के स्वीकृत निर्माण एवं विकास कार्यो का भूमि-पूजन कर रहे थे।   मुख्यमंत्री ने कहा कि उमरिया के 500 गरीब परिवार के आवास निर्माण के लिए 50 करोड़ रूपये का आवंटन स्वीकृत किया गया है। जिले में वर्षों से काबिज भूमि में 42 हजार गरीब परिवार को भू-खण्ड के पट्टे वितरित कर उन्हें भू-खण्ड का मालिक बनाया गया है। इसके बाद इन परिवारों के आवासों का निर्माण भी किया जायेगा। उन्होंने उमरिया में सर्व-सुविधायुक्त भव्य टाउन हाल और लोहारगंज में स्टेडियम बनाने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि अगले शैक्षणिक सत्र से स्नातक महाविद्यालय का उन्नयन कर स्नातकोत्तर महाविद्यालय बनाया जायेगा।   मुख्यमंत्री ने कहा कि आदिवासी परिवार अपने बेटे-बेटियों को शिक्षा दिलाये और उन्हें आगे बढ़ाये। श्री चौहान ने कहा कि शिक्षित बेरोजगार युवकों को स्व-रोजगार के लिए अनेक योजनाएँ प्रारंभ की गई हैं। स्व-रोजगार योजना में 50 हजार से 10 लाख रुपये तक की ऋण सुविधा दी जाती है। मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना में एक करोड़ रुपये तक का ऋण दिया जाता है। योजना में 15 लाख रुपये अनुदान और 5 लाख रुपये ब्याज में छूट दी जाती है। उन्होंने युवाओं से कहा कि आगे आये और खुद का स्व-रोजगार स्थापित कर अपने उद्योग के मालिक बने।   मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कृषि उपज मण्डी के ऐसे भू-खण्डों पर जहाँ गरीब परिवार निवास कर रहे हैं उन पर कृषि उपज मण्डी अपना हक छोड़ेगी और वहाँ पर गरीब परिवार ही रहेगा। इस अवसर पर उमरिया जिले के प्रभारी मंत्री  ओमप्रकाश धुर्वे, अनुसूचित जाति एवं जनजाति कल्याण मंत्री  ज्ञानसिंह सहित जन-प्रतिनिधि एवं गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।   बरबसपुर उप-तहसील बनेगी, सरसवाही में हायर सेकेण्डरी स्कूल प्रारंभ होगा   मुख्यमंत्री जनदर्शन   मुख्यमंत्री श्री चौहान ने उमरिया जिले के बरबसपुर में जनदर्शन कार्यक्रम में कहा कि शीघ्र ही यहाँ उप-तहसील की स्थापना की जाएगी। सरसवाही में अगले शैक्षणिक सत्र से हायर सेकेण्डरी स्कूल प्रारंभ होगा।   मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि जो आदिवासी परिवार वर्षों से भू-खण्ड पर काबिज होकर रह रहे हैं उस भूमि का पट्टा उन्हें देकर मालिकाना हक दिया जाएगा। बरबसपुर में 191 आदिवासी परिवारों को भू-खण्ड के पट्टे दिये जायेंगे। उन्होंने प्रतीकस्वरूप प्रेमलाल, रामलाल बाबू, सुक्कू, टिल्लू को भू-अधिकार पत्र वितरित किये। इसके पूर्व मुख्यमंत्री ने बीएसएफ के जवान शहीद सतेंद्र सिंह के माता पिता श्री वीरेंद्र सिंह को शाल और श्रीफल देकर सम्मानित किया।   मुख्यमंत्री ने जनदर्शन कार्यक्रम में ग्रामों में जाकर ग्रामीणों से मुलाकात कर उनकी कठिनाइयों का निराकरण किया। परासी में आयोजित जनदर्शन में मुख्यमंत्री  चौहान ने अगले शैक्षणिक सत्र से माध्यमिक शाला का उन्नयन कर हाई स्कूल बनाने , बोर में हेण्डपंप लगाने की घोषणा की। उन्होंने प्रतीकस्वरूप भू-खण्ड के अधिकार पत्र वितरित किए। श्री चौहान ने कहा कि बैगा परिवार के प्रत्येक शिक्षित छात्रों को नौकरी दी जाएगी। उन्होंने कहा कि कक्षा 12 वीं परीक्षा 60 प्रतिशत अंकों से पास करने वाली ऐसी बेटी, जो कालेज में प्रवेश लेती है, को छात्रवृत्ति के अलावा पाँच हजार रूपये दिये जाते हैं। उन्होंने कहा कि 60 प्रतिशत से उपर अंक प्राप्त करने वाले छात्रों को स्मार्ट फोन एवं 85 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं को लेपटाप दिया जा रहा है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 August 2016

uma shankar gupta

  उमरिया में "ग्रामोदय से भारत उदय'' अभियान सम्मेलन        मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान का संकल्प है कि प्रदेश को स्वर्णिम मध्यप्रदेश बनाना है। इसके लिए गरीबों को एक रूपये पर खाद्यान्न, मकान और नौजवानों को रोजगार देने का लक्ष्य निर्धारित है। जब तीनों लक्ष्य पूर्ण होंगे तो स्वर्णिम मध्यप्रदेश बनेगा। उच्च शिक्षा, कौशल विकास, तकनीकी शिक्षा एवं उमरिया जिला प्रभारी मंत्री श्री उमाशंकर गुप्ता ने यह बात 'ग्रामोदय से भारत उदय'' अभियान में उमरिया में जिला-स्तरीय हितग्राही सम्मेलन में कही। उन्होंने कहा कि प्रदेश का कोई भी व्यक्ति भूखे पेट नहीं सोएगा। पाँच करोड लोगों को एक रूपये पर गेहूँ और चावल दिया जा रहा है।   श्री गुप्ता ने कहा कि अभियान में 60 हजार से अधिक हितग्राही लाभान्वित हुए हैं। सरकार 50 हजार करोड़ व्यय कर आम जनता को 24 घंटे विद्युत दे रही है। सिंचाई का रकबा 36 लाख हेक्टेयर से बढ़ाकर 2018 तक 60 लाख हेक्टेयर करने का लक्ष्य निर्धारित है। उन्होंने कहा कि सड़क, स्वास्थ्य और संस्कार की योजनाएँ सहित अन्य कल्याणकारी योजनाओं का लाभ अंतिम छोर के व्यक्ति तक पहुँचाने के लिये सरकार प्रतिबद्ध है। तकनीकी शिक्षा मंत्री ने कहा कि अभियान में ग्राम-सभाओं के माध्यम से ग्रामों के चहुँमुखी विकास की अवधारणा तैयार की गई है। उन्होंने कल्याणकारी योजनाओं में बीपीएल-कार्ड, ऋण-पुस्तिका, विधवा-पेंशन, दिव्यांग पेंशन, गरीबी रेखा में नाम जोड़ने, पेयजल सुविधा, तालाब गहरीकरण, जल-संरचनाएँ, कृषि को लाभ का धंधा बनाने सहित अन्य योजना का लाभ लेने के लिए हितग्राही को आगे आने तथा जुड़ने की बात कही। सांसद श्री दलपत सिंह परस्ते ने कहा कि केन्‍द्र एवं राज्य सरकारें योजनाएँ तो लाती हैं पर हितग्राही उनका लाभ लेने के लिए आगे आयें तभी विकास होगा। उन्होंने प्रधानमंत्री के स्वच्छ भारत मिशन के सपने को साकार करने में सबके सहयोग की अपील की। विधायक  मीना सिंह ने कहा कि सरकार की नीति और नियत में कोई अंतर नहीं है। योजनाएँ बनने के साथ ही तत्काल गाँव तक पहुँचती हैं। एक हजार से अधिक हितग्राही लाभांवित श्री गुप्ता ने अभियान में 1000 से अधिक हितग्राही को प्रतीक स्वरूप लाभान्वित किया। उन्होंने विकासोन्मुखी प्रदर्शनी को भी देखा। श्री गुप्ता ने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ योजना में 10 लाड़लियों के पैर धोकर चंदन टीका लगाया तथा चुनरी दी। कार्यक्रम में 101 गर्भवती माताओं को मेडिसिन किट, नारियल, चूड़ी, बिंदी, चुनरी एवं गुल्लक प्रदान की गई।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  27 May 2016

बिलासपुर रेलवे

      बिलासपुर रेलवे अधिकारी ए के पंडा के दफ्तर में सीबीआई ने  छापा मारा और पंडा को रंगे हाथ पकड़ा ,डीआरएम कार्यालय स्थित कार्यालय में चली कार्यवाही में पता चला की ठेकेदार एस सुब्रामणियम से बिल पास करवाने के लिए रिश्वत मांगी जा रही थी।  11 हजार रूपये घूस लेते रंगे हाथे पकडाया adfm पंडा।  बिलासपुर. सीबीआई की टीम ने बिलासपुर रेल मंडल कार्यालय में दबिश देकर  डिवीजनल फाइनेंस अधिकारी को रिश्वत लेते रंगेहाथों गिरफ्तार किया। उनके पास से 11600 रुपए नगद जब्त किए गए। सीबीआई ने उनके दफ्तर में अन्य कागजात भी खंगाले हैं।    जानकारी के मुताबिक रेलवे के मंडल कार्यालय में कार्यरत डिवीजनल फाइनेंस अधिकारी अजय कुमार पंडा ने टेंडर पास कराने के लिए एक ठेकेदार से रिश्वत की मांग की थी। ठेकेदार ने इसकी शिकायत सीबीआई को थी। शनिवार को पंडा ने ठेकेदार को रकम लेकर बुलवाया था।   जैसे ही ठेकेदार ने पंडा को रिश्वत के पैसे दिए वैसे ही सीबीआई की टीम ने दबिश देकर पंडा को धरदबोचा। पंडा के पास से रिश्वत के पैसे बरामद किए। इसके बाद सीबीआई की टीम ने उससे पूछताछ भी की है। यहां दस्तावेजों को भी खंगाला गया है शिकायतकर्ता ठेकेदार का नाम ठेकेदार एस सुब्रामणियम है।   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 May 2016

Video

Page Views

  • Last day : 2842
  • Last 7 days : 18353
  • Last 30 days : 71082
Advertisement
Advertisement
Advertisement
All Rights Reserved ©2017 MadhyaBharat News.