Since: 23-09-2009

  Latest News :
कर्नाटक विधानसभा उपचुनाव के नतीजे घोषित.   हैण्डलूम एक्सपोर्ट कार्पोरेशन ने भुगतान रोका.   यूपी में 218 फास्ट ट्रैक कोर्ट को मंजूरी.   पीड़ित परिवार को मिले 25 लाख, बहन को नौकरी.   दुष्कर्मियों को तेलंगाना के मंत्री की चेतावनी.   एनकाउंटर से हुई पुलिस की कॉलर ऊंची.   खरगोन में हुई अनूठी शादी नहीं हुए सात फेरे.   केंद्र सरकार के खिलाफ कांग्रेस करेगी दिल्ली में प्रदर्शन.   महिला अपराधों पर सामाजिक संगठनो का विरोध प्रदर्शन.   रेलवे ट्रैक पर मिला स्कूली छात्र का शव.   महिला की हत्या के दो आरोपी गिरफ्तार.   तेज रफ़्तार कार की खड़े ट्रक से टक्कर.   दो युवतियों की जघन्य हत्या .   किसानो ने किया सीएम भूपेश बघेल का पुतला दहन.   युवक ने किया सरेआम महिला पर हँसिये से हमला.   दुष्कर्मी को पीटने कोर्ट परिसर में दौड़ीं महिलाएं.   ITBP जवान ने साथी पर की फायरिंग 6 की मौत.   नक्सली DKMS अध्यक्ष सन्ना हेमला हुआ सरेंडर.  

जांजगीर-चाम्पा News


BIJLI COMPANY

चार हजार से अधिक लोग हुए बेरोजगार दो सौ मेगावाट बिजली की सप्लाई कर रही थी   छत्तीसगढ़ में 36 सौ मेगावाट बिजली का उत्पादन करने वाली निजी कंपनी केएसके महानदी पॉवर कारपोरेशन  लिमिटेड  में तालाबंदी हो गई है | यह कंपनी उत्तर प्रदेश को सर्वाधिक 200 मेगावाट और आंधप्रदेश व तमिलनाडु को पांच-पांच सौ मेगावाट बिजली की आपूर्ति कर रही थी  | कंपनी में तालाबंदी से साढ़े तीन हजार से अधिक श्रमिक व कर्मचारी एक झटके में बेरोजगार हो गए हैं | प्रबंधन ने तालाबंदी की वजह कर्मचारी संगठनों के आंदोलन को बताया है | जांजगीर के नरियरा  में  केएसके महानदी पॉवर कारपोरेशन  लिमिटेड  में बढ़ते झगड़ों की वजह से तालाबंदी हो गई है  |  यहां भारतीय मजदूर संघ और यूनाईटेट मजदूर संघ् के बीच वेतन वृद्धि विवाद को लेकर  विवाद चल रहा था | जिसके चलते  11 सितंबर से उत्पादन बाधित था | 36 सौ मेगावाट के इस प्लांट में वर्तमान में 14 सौ मेगावाट विद्युत का उत्पादन हो रहा था |  यहां से ग्रिड के माध्यम से आंध्रप्रदेश, तमिलनाडु, उत्तरप्रदेश के अलावा इस छत्तीसगढ़ में बिजली की आपूर्ति की जा रही थी  | मंगलवार सुबह कर्मचारी व श्रमिक जब कंपनी पहुंचे तो मेन गेट पर लाकआउट का नोटिस चस्पा मिला |  प्रबंधन ने इसके लिए मजूदर संघ पर अधिकारी-कर्मचारियों के साथ मारपीट और बहुसंख्य मजदूरों द्वारा टूलडाउन किए जाने तथा दो श्रमिक संगठनों द्वारा विवाद को जिम्मेदार बताया है  |प्रबंधन ने लाकआउट का कारण यह भी बताया है कि इस गैर कानूनी हड़ताल से कंपनी को बड़ा नुकसान हुआ है और बिजली खरीदने वाले उपभोक्ताओं को परेशानी हुई है, इसलिए औद्योगिक विवाद अधिनियम 1947 की  धारा 24(3) के तहत लाकआउट किया गया है  | केएसके महानदी पॉवर प्लॉट मे ताला लगने से  4000 अधिकारी, कर्मचारी सहित भूविस्थापितों पर बेरोजगारी का खतरा मंडरा रहा है |  तालाबंदी से अचानक 15 सौ मगावाट बिजली उत्पदान ठप्प हो गया है | इससे  5 राज्यों को होने वाली बिजली सप्लाई बाधित हुई है |  इस संयंत्र मे 3500 स्थानीय भू विस्थापितों के साथ 500 के करीब अधिकारी कर्मचारी कार्यरत हैं  | इस मामले मे प्रबंधन की ओर कोई चर्चा के लिए सामने नही आया वहीं कर्मियों ने बताया कि वेतन और प्रमोशन को लेकर विवाद चल रहा था जिसके बाद  प्रबंधन के द्वारा यह कदम उठाया गया है |

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 September 2019

GAAYON KI MAUT

बीमारी और भुखमरी से गायों के मौत   अचानक बड़ी संख्या में गायों की मौत ने सरकार की आदर्श गौठान योजना पर सवाल खड़े कर दिए हैं | इन गायों की मौत का कारण भूख और बीमारी से होना बताया जा रहा हैं |  ना तो गायों के रहने के लिए उचित प्रबंध हैं ना ही चारे की व्यवस्था और ना ही ईलाज की | अगर  कुछ हैं तो इस योजना में सिर्फ अव्यवस्था हैं | ग्राम खोखरा के आदर्श गौठान में 10 गायों की मौत हो गई  | छत्तीसगढ सरकार के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की महत्वाकांक्षी आदर्श गौठान योजना पर अव्यवस्था का ग्रहण लग गया है | बडे तामझाम से शुरू की गई इस योजना के सकारात्मक परिणामो के बदले नकारात्मक नतीजे सामने आने लगे है |  आये दिन किसी न किसी जिले से भुखमरी बीमारी और अव्यवस्था के कारण बडी संख्या मे गायों के मौत की खबरेंआ रही हैं  | इन सभी गायों की मौत का कारण  बीमारी और भुखमरी | गायों के लिए रहने की उचित व्यवस्था ना होना | शेड ना होना | इलाज न होना |  खुले मैदान में गायों को रखने की वजह से वे बीमार हो जाती हैं |गौठान में भारी अव्यवस्था हैं | चारा- पानी की कमी हैं साथ ही गौठान कीचड़ से सराबोर है |  सही मायनो में गौठान गायों की सेवा करने उन्हें सुरक्षित रखने के लिए बनाये गए थे  |  जो अब अवयवस्था के कारण   गायों के लिए कब्रगाह साबित हो रहे हैं | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 September 2019

 WEATHER

ठेकेदार और सिचाई विभाग की मिलीभगत  अभी  नहीं मिलेगा खेतों  को पानी     छत्तीसगढ़ के जांजगीर में पहली ही बारिश में नहर लाइनिंग धसने से  अल्प वर्षा की मार झेल रहे  खेत सूखने की कगार पर आ गए हैं   |  पचास लाख रूपये खर्च कर  कराया गया नहर लाइनिंग का  कार्य कमीशन खोरी की भेंट चढ गया | नहर धसने से  ठेकेदार और प्रशासन दोनों सवालों के घेरे में आ गए है  |  जांजगीर चाम्पा में  पहली बारिश में लाखों की नहर लाइनिंग धंस गई   |  जिसके चलते इस बार  बार किसानों को  नहर से पानी नहीं मिल पाएगा |   अल्प वर्षा की मार झेलने वाले बलौदा क्षेत्र के किसानों को इस बार ना उम्मीद होना पड़ेगा   |  क्योंकि क्षेत्र मे कराए गये नहर लाईनिंग का काम भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गया  |  दरअसल जांजगीर-चांपा जिले के बलौदा ब्लाक के रसौटा नहर लाइनिंग में ठेकेदार ने इतना ख़राब  काम कराया कि  पहली बारिश का पानी नहर नहीं झेल पाई | और पूरी तरह धंस गई  |  जबकि बीते वर्ष शासन ने नहर लाइनिंग के नाम पर 50 लाख रुपए खर्च किये थे |   अब इस माइनर नहर से किसानों को एक ओर सिंचाई के लिए पानी नहीं मिल पाएगा   |  तो वहीं दूसरी ओर हजारों एकड़ धान की फसल सूखे की चपेट में आ जाएगी  |   क्योंकि किसान पहले ही अल्प वर्षा की मार झेल रहे हैं और खेत सूखने की कगार पर हैं |   गौरतलब है कि सिंचाई विभाग ठेकेदारों के लिए मलाई वाला विभाग बना हुआ है   |  जिसकी वजह से निर्माण कार्य को लेकर ठेकेदारों में इस कदर होड़ मची है कि  |   वह पहले तो काफी कम दर में टेंडर ले लेता है  |  बाद में मुनाफा कमाने के फेर में घटिया निर्माण करा देता है  |           

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 August 2019

 TS SINGH DEV

सिंहदेव ने कहा व्यवस्था दुरुस्त करेंगे    छत्तीसगढ़ के स्वास्थय मंत्री टीएस सिंह देव ने कहा कि स्वास्थ्य सेवाओं में अभी काफी कमी है जिसे ठीक करने का प्रयास किया जा रहा है  उन्होंने कहा कि प्रदेश के हर व्यक्ति को उचित इलाज मिले इसके लिए कांग्रेस सरकार गंभीरता से कार्य कर रही है   छत्तीसगढ़ शासन के पंचायत, स्वास्थ्य एवं जांजगीर-चांपा जिले के प्रभारी मंत्री टीएस सिंहदेव  ने कार्यकर्ताओं और आम जनता से मुलाकात की   वहीं सिंहदेव ने कलेक्टोरेट मे समीक्षा बैठक भी ली  इस दौरान  टी एस सिंहदेव के साथ विधान सभा अध्यक्ष डॉ चरणदास महंत भी मौजूद रहे  बैठक के पूर्व टीएस सिंहदेव ने स्वास्थ्य व्यवस्थाओं की कमी को स्वीकार करते हुए जल्द ही समुचित व्यवस्था बहाल करने की बात कही  समीक्षा बैठक मे स्वीकृत कार्यों को समय सीमा मे पूरा करने के भी निर्देश  उन्होंने दिए   गौरतलब है कि जांजगीर के जिला हॉस्पिटल मे टीएमटी मशीन आकर रखी हुई है   मगर इंस्टाल नही किये जाने से इसका इस्तेमाल नहीं हो पा रहा है  .यहाँ की  एक्स रे मशीन भी खराब  पड़ी है   वहीं ब्लड बैंक मे भी लेब टैक्निशियन और पैथोलाजिस्ट की कमी की वजह से लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ता है   सिंह देव ने इन कमियों को तत्काल पूरा किये जाने की बात कही     

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 August 2019

नक्सलवादी  किसान आंदोलन

छत्तीसगढ़ में विपक्षी दलों के बाद अब नक्सलियों ने भी किसान आंदोलन की आग में घी डालने का काम किया है। छत्तीसगढ़ के पखांजुर थाना क्षेत्र के द्वारिकापुरी-बारदा मार्ग पर सोमवार को माओवादियों ने बैनर लगाकर व पर्चे फेंक कर अपना समर्थन जताया है। मिली जानकारी के मुताबिक माओवादियों की प्रतापपुर एरिया कमेटी ने किसानों की मांगों का समर्थन किया है। इस मामले की जानकारी सामने आने के बाद प्रशासन ने इलाके में सर्चिंग बढ़ा दी है और जांच शुरू कर दी है। इसके अलावा मंदसौर में किसानों पर हुए तथाकथित गोलीकांड के विरोध में बीजापुर में भी नक्सलियों ने पर्चें फेंके और गोलीकांड की निंदा की। माओवादियों ने ये पर्चे तुमनार मार्ग पर गैस गोडाउन के सामने फेंके। पर्चों में नक्सलियों ने किसानों के आंदोलन को जनयुद्ध बताया।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 June 2017

income tax

छत्तीसगढ़ में काला धन जमा करने वाले कारोबारियों पर आयकर विभाग ने अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई की है। आयकर विभाग ने प्रदेश के नौ शहरों में 15 अलग-अलग कारोबारियों के ठिकानों पर बुधवार को एक साथ सर्वे की कार्रवाई शुरू की। मुख्य आयकर आयुक्त केसी घुमरिया ने नईदुनिया को बताया कि नोटबंदी के दौरान खातों में लाखों रुपए जमा करने वालों के खिलाफ विभाग ने कार्रवाई शुरू की है। इसके तहत रायपुर सहित बिलासपुर, राजनांदगांव, भिलाई, महासमुंद, कांकेर, जगदलपुर, बेमेतरा और भाटापारा में कार्रवाई की गई है। आयकर विभाग के आला अधिकारियों ने बताया कि बस्तर के कारोबारियों पर पहली बार कार्रवाई हो रही है। आदिवासी बहुल कांकेर और जगदलपुर के रियल एस्टेट और सराफा कारोबारी कार्रवाई जद में आए हैं। नोटबंदी के दौरान मनमाने पैसा जमा करने पर देशभर के 12 लाख कारोबारियों से जवाब मांगा गया था। लेकिन अधिकांश कारोबारियों ने जवाब नहीं दिया। इनमें सबसे ज्यादा सराफा और रियल एस्टेट कारोबारी हैं। कई कारोबारियों ने बोगस कंपनियां बनाकर करोड़ों स्र्पए जमा किए हैं। बोगस कंपनी संचालकों की ओर से कोई जवाब नहीं आया। अब ऐसी कंपनियों की भी जांच शुरू कर दी गई है। अधिकारियों ने बताया कि कई बोगस कंपनियों के पते की जांच की गई। राजधानी सहित राजनांदगांव और बिलासपुर में बोगस कंपनियों के पते पर टीम पहुंची तो कंपनी मिली ही नहीं। आसपास के लोगों ने ऐसी कोई कंपनी नहीं होना बताया। ये सभी जांच की जद में हैं। नोटबंदी के बाद आयकर की टीम ने आठ सर्वे किए, जिनमें कारोबारियों ने 15 करोड़ की अघोषित आय सरेंडर की है। रायपुर, राजनांदगांव और तिल्दा में जांच पूरी हुई है। अधिकारियों ने बताया कि राजनांदगांव के बरड़िया ज्वेलर्स में 1 करोड़ 70 लाख स्र्पए सरेंडर किए हैं। आयकर इन्वेस्टिगेशन विंग ने मार्च में चार सर्वे किए, जिनमें कारोबारियों ने छह करोड़ स्र्पए सरेंडर किए हैं। सीसीआईटी केसी घुमरिया ने बताया कि इस वर्ष 4200 करोड़ के राजस्व वसूली का टारगेट है, जिसमें से अब तक 2800 करोड़ की वसूली हो गई है। उन्होंने कहा कि 31 मार्च तक सर्वे की कार्रवाई में तेजी रहेगी।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 March 2017

pnb

पंजाब नेशनल बैंक के नैला शाखा से कांकेर जिले में संचालित पांच लोगों के बैंक खाते में 1 करोड़ 16 लाख रुपए जमा करने का मामला सामने आया है। पुलिस ने पैसे जमा करने वाले दो लोगों को पकड़ कर पूछताछ के बाद छोड़ दिया। हालांकि खातों को सीज करा दिया गया है। पुलिस के अनुसार नैला चौकी क्षेत्र स्थित पंजाब नेशनल बैंक की शाखा में सक्ती निवासी मुरली सिंह और उसके एक साथी घासीराम कमलेश मंगलवार को दोपहर पहुंचे और कांकेर जिले के रमेश सोनी, जयचंद प्रसाद, आशीष कुमार, भास्कर राय व वृंदा देवी गुप्ता के खाते में 1 करोड़ 16 लाख रुपए जमा कराया। अधिक रकम जमा किए जाने की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। इसके बाद रकम जमा करने वाले मुरली सिंह और घासीराम कमलेश को थाना लाया गया। उनसे उनका नाम पता पूछकर उसकी पुष्टि की गई। इसके बाद दोनों को छोड़ दिया गया। साथ ही रकम जमा किए गए खातों को सीज कर दिया गया। पुलिस का कहना है कि संबंधित लोगों को पूछताछ के लिए कभी भी बुलाया जा सकता है। थाना प्रभारी बीएस खुटिया ने बताया सूचना पर उक्त दोनों व्यक्ति को पकड़ा गया है। ये दोनों शराब भट्टी के कर्मचारी हैं। मामले की जांच की जा रही है। कांकेर संवेदनशील जिला होने के कारण मामले की सूक्ष्म जांच की जा रही है। जांजगीर-चांपा के एसपी  अजय यादव ने बताया पीएनबी नैला शाखा में दो लोगों ने कांकेर के 5 लोगों के खाते में 1 करोड़ 16 लाख रुपए जमा किया है। सूचना के आधार पर दो लोगों से पूछताछ की गई और उन्हें छोड़ दिया गया। जिन खातों में राशि जमा की गई है,उन खातों में मामले की जांच होने तक लेन-देन पर रोक लगा दी गई है।   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 November 2016

बेरहम पुलिस का खौफनाक चेहरा

थाने में  दलित युवक  सतीश  की  पिटाई से  मौत जांजगीर-चांपा. पामगढ़ के मुलमुला थाने में पुलिस कस्टडी में युवक की मौत हो गई। मृतक के परिजनों का आरोप था कि मुलमुला थाना प्रभारी ने युवक की बेरहमी से पिटाई की है। जिसके चलते युवक की मौत हुई है। मृतक के परिजनों ने मुलमुला थाना प्रभारी के खिलाफ तत्काल एफआईआर दर्ज करने की मांग को लेकर पामगढ़ मुख्य मार्ग में डटे रहे। फिलहाल एसपी अजय यादव ने मुलमुला थाना प्रभारी जितेंद्र सिंह राजपूत को सस्पेंड कर दिया है।  जानकारी के अनुसार नरियरा निवासी सतीष कुमार नोरगे पिता राजाराम ने शनिवार की शाम को नरियरा में बदमाशी करते हुए एक फीडर की बिजली जानबूझकर गुल कर दी। इसकी शिकायत विद्युत मंडल के अधिकारियों ने पुलिस को दी। मुलमुला थाना प्रभारी जितेंद्र सिंह राजपूत ने दबंगई दिखाते हुए सतीष कुमार नोरगे को अपने कब्जे में लिया और उसके खिलाफ धारा 151 की कार्रवाई करते हुए उसकी पिटाई कर दी। उसे इतना पीटा कि वह बुरी तरह गंभीर हो गया। उसके पांव व जांघ में चोट के गंभीर निशान थे। उसे गंभीर अवस्था में पामगढ़ के अस्पताल में भर्ती कराया गया। इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।  युवक की मौत के बाद उसके परिजन आक्रोशित हो गए और शव मेनरोड में एसडीएम कार्यालय के समक्ष रखकर चक्काजाम कर दिया। परिजनों का आरोप था कि मुलमुला थाना प्रभारी ने युवक की बेरहमी से पिटाई की जाए। उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाए। परिजन शनिवार की शाम छह बजे से लेकर रात आठ बजे तक सड़क पर शव रखकर पुलिस के खिलाफ नारेबाजी करते रहे, लेकिन मौके पर कोई अधिकारी नहीं पहुंचा था। मामले की सूचना एसपी अजय यादव को हुई। एसपी ने मुलमुला थाना प्रभारी जितेंद्र सिंह राजपूत को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया है।   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 September 2016

gst chatisgadh

      बुधवार को संसद के उच्च सदन में गुड्स एंड सर्विस टैक्स बिल पास होने के बाद अब देश में व्यापक कर सुधार के रास्ते खुलते नजर आ रहे हैं। इसे लेकर राज्य में भी उत्साह का माहौल है। सीएम डॉ रमन सिंह ने कहा कि जीएसटी पास होने से देश का तेजी के साथ आर्थिक विकास होगा। वहीं डॉ रमन सिंह ने संकेत दिए हैं कि आगामी दिनों में जीएसटी संबंधि चर्चा के लिए राज्य विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया जा सकता है।   गुरुवार को यहां राजधानी में पत्रकारों से चर्चा करते हुए सीएम डॉ रमन सिंह ने कहा कि देश में आजादी के बाद हम अब जीएसटी के जरिए सबसे बड़े कर सुधार की ओर आगे बढ़े हैं। इससे पूरे देश में आने वाले दिनों में तेजी के साथ आर्थिक विकास होगा। इसमें उपभोक्ता और व्यापारी दोनों का ही हित समाहित है।   राष्ट्रपति की स्वीकृति के बाद संविधान के 122 वें संशोधन के साथ जीएसटी अस्तित्व में आ जाएगा। डॉ रमन ने कहा कि राज्य में जीएसटी को लागू करने के लिए अधोसंरचना तैयार करने और व्यवहारिक बाधाओं को दूर करने संबंधि चर्चा के लिए आगामी दिनों में विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया जा सकता है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 August 2016

Video

Page Views

  • Last day : 5596
  • Last 7 days : 32148
  • Last 30 days : 146931
All Rights Reserved ©2019 MadhyaBharat News.