Since: 23-09-2009

Latest News :
पाकिस्तान में छुपा बैठा है डॉन,चार पते मिले.   नर्मदा यात्रा : रिहर्सल में पत्नी अमृता के साथ रोज पैदल चल रहे हैं दिग्विजय.   सेना ने आतंकी आदिल को जिंदा दबोचा.   शाह ने कहा- दंगों के वक्त मेरे साथ विधानसभा में थी माया.   प्रद्युम्न की हत्या के बाद खुला रेयान स्कूल.   आतंकवाद से साथ मिलकर लड़ेंगे भारत-जापान:शिंजो आबे.   मुख्यमंत्री चौहान ने किया सदगुरू की नदी अभियान रैली का स्वागत.   तरुण सागर की कड़वे वचन का विमोचन.   भाजपा किसान मोर्चा ने मांगी राहत.   हनीप्रीत को लेकर हरियाणा पुलिस की एडवाइजरी, मप्र पुलिस सक्रिय.   सीएम हाउस के नाम से धमकाने वाले को नोटिस.   मध्यप्रदेश के सभी गाँव और शहर खुले में शौच से मुक्त किये जाएंगे.   बस्तर को अलग राज्य बनाने की मांग.   मजदूरों को छत्तीसगढ़ में पांच रूपए में मिलेगा टिफिन.   अम्बुजा सीमेंट में पिस गए दो मजदूर.   एम्बुलेंस ये ले जाती है नदी पार .   भालू के हमले से दो की मौत.   जोगी की जाति के मामले में सुनवाई फिर टली.  

धमतरी News


अजीत जोगी कंवर

  पूर्व मुख्यमंत्री व जकांछ सुप्रीमो अजीत जोगी के जाति मामले में तीसरे दिन शुक्रवार को भी सियासी दांव-पेच चले। आदिवासी कांग्रेसियों ने मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह से मिलकर जोगी के आदिवासी न होने की रिपोर्ट के आधार पर पिता-पुत्र के खिलाफ एफआईआर कराने की मांग की। इस पर डॉ. सिंह ने उन्हें कहा कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद हमने हाईपावर कमेटी बनाई। अब प्रकरण को मुकाम तक पहुंचाएंगे। इधर जोगी कुनबा भी लामबंद है। अजीत जोगी बिलासपुर और रायपुर में वकीलों से रायशुमारी के बाद दिल्ली रवाना हो गए। वे वहां भी वरिष्ठ वकीलों के साथ मंथन कर अगला कदम उठाएंगे। रायपुर में जूनियर जोगी ने सरकार और कांग्रेस को निशाने पर रखा। उधर अजीत जोगी के खिलाफ चुनाव लड़ने वाली समीरा पैकरा ने भी अपना पक्ष सुनने हाईकोर्ट में केविएट दायर कर दी है। प्रकरण के विरोध और समर्थन में कई शहरों में हल्लाबोल जारी है। इस बीच नईदुनिया टीम ने जोगी के पैतृक ग्राम जोगीसार जाकर पड़ताल की तो चौंकाने वाली बात सामने आई। यहां के ज्यादातर ग्रामीणों का कहना है कि जोगी कंवर जाति के नहीं हैं। कुछ ने उनकी जाति की सही जानकारी होने से इनकार किया। मरवाही विधानसभा के गौरेला से 22 किमी दूर जोगीसार को जोगी अपना पैतृक गांव और लोगों को रिश्तेदार बताते हैं। नईदुनिया टीम ने पाया कि गांव में चार टोला (मोहल्ला) हैं। यहां कंवर जाति के लोगों की संख्या अधिक है। पहले शख्स नानू सिंह कंवर (90) मिले, जिन्होंने बताया कि हम कई पीढ़ियों से यहां रह रहे हैं। जोगी कंवर हैं, नहीं जानते। तराईपारा मोहल्ले के मानसिंह नागेश (63) ने दो टूक कहा कि वे नहीं मानते कि जोगी आदिवासी हैं। इसी तरह सरिसटोला के कुंवर सिंह कंवर (65) का कहना था कि जोगी चुनाव के चलते आदिवासी बने हैं। खट्टरपारा मोहल्ले के जेवन सिंह पैकरा (60) ने कहा कि सरकार ने तो फैसला कर दिया है कि वे नकली आदिवासी हैं। अजीत जोगी की जाति मामले में आदिवासी कांग्रेसियों ने शुक्रवार शाम मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह से मुलाकात कर एफआईआर कराने की मांग की। आदिवासी कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष शिशुपाल सोरी और आदिवासी कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मनोज मंडावी के नेतृत्व में सीएम हाउस पहुंचे प्रतिनिधि मंडल ने कहा कि अधिनियम की धारा 10 व नियम 24 के अंतर्गत कमेटी अपने निर्णय के तहत एफआईआर कराने के लिए बाध्य है। बाद में सोरी ने मीडिया से कहा कि छत्तीसगढ़ अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और अन्य पिछड़ा वर्ग अधिनियम के प्रावधानों में जाति फर्जी पाए जाने पर सजा और अर्थदंड का प्रावधान भी है। आदिवासी होने के नाम पर जोगी ने आज तक जितना धन अर्जित किया है, उसकी भी वसूली की जानी चाहिए। कमेटी को इसका पूरा अधिकार है। आदिवासी समाज चाहता है कि इस मामले में कठोर कार्रवाई हो, जिससे आदिवासी होने के नाम पर लाभ लेने वालों का गोरखधंधा खत्म हो सके। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि जाति मामले में हाईपावर कमेटी का निर्णय ही अंतिम माना जाएगा। प्रतिनिधि मंडल को डॉ. सिंह ने कहा है कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद हमने हाईपावर कमेटी का गठन कर जो काम किया है, उसे मुकाम तक पहुंचाएंगे। सीएम को सौंपे ज्ञापन में शिशुपाल सोरी, गंगा पोटाई, डॉ.प्रेमसाय सिंह, कवासी लखमा, अनिला भेड़िया, तेजकुंवर नेताम समेत कई नेताओं के दस्तखत हैं। हाईपावर कमेटी की रिपोर्ट को झूठा करार देते हुए जोगी समर्थकों ने जोरदार विरोध किया। जकांछ युवा के प्रदेश अध्यक्ष विनोद तिवारी के नेतृत्व ने कार्यकर्ताओं ने कमेटी के सदस्यों पर सवाल उठाया। वहीं, मुख्यमंत्री को आदिवासी विरोधी बताते हुए पुतला जलाया। जोगी की जाति मामले में समीरा ने भी पेश की केविएट जोगी की जाति मामले में जिला पंचायत उपाध्यक्ष समीरा पैकरा ने भी हाईकोर्ट में केविएट दाखिल की है। पैकरा ने इसमें कहा है कि पूर्व विधायक पहलवान सिंह मरावी समेत मरवाही क्षेत्र के 200 लोगों ने जोगी और उनके पुत्र की जाति को लेकर हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की है। याचिका हाईकोर्ट में लंबित है। ऐसी स्थिति में समिति की रिपोर्ट के खिलाफ याचिका दाखिल की जा सकती है,तो उनका पक्ष भी सुना जाए। उल्लेखनीय है कि गुरुवार को इसी मामले में याचिका दाखिल करने वाले संतकुमार नेताम ने अलग से केविएट दाखिल की है। अजीत जोगी 2 दिन तक बिलासपुर और रायपुर में वरिष्ठ वकीलों से सलाह-मशविरा के बाद शुक्रवार शाम नियमित विमान से दिल्ली रवाना हुए। पार्टी प्रवक्ता सुब्रत डे ने बताया कि जोगी शनिवार को अजमेर में एक कार्यक्रम में शामिल होने गए हैं, जो पहले से तय था। जोगी के आदिवासी न होने के हाईपावर कमेटी के निर्णय को चुनौती देने उसका बारीकी से अध्ययन किया जा रहा है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 July 2017

ajit jogi

जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के संस्थापक अध्यक्ष अजीत जोगी ने गुरुवार को मंदिर हसौद-चंदखुरी पहुंचकर किसानों के साथ खेत में उतरे और शपथपत्र पढ़ा। उन्होंने खेत की मिट्टी को हाथ में लेकर किसानों के शपथ ली कि उनकी पार्टी की सरकार बनी तो किसानों का कर्ज माफ किया जाएगा और धान का समर्थन मूल्य 25 सौ रुपए किया जाएगा। जोगी ने बिलासपुर में 14 जून को शपथपत्र तैयार कराया। उसे लेकर जोगी, विधायक आरके राय और पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता सुब्रत डे के साथ मंदिर हसौद-चंदखुरी पहुंचे। जोगी किसानों के साथ खेत में उतरे। हल, नागर, कुदाली, बैल की पूजा की। इसके बाद जोगी ने अपने शपथपत्र को पढ़ा। शपथ लेने के बाद उन्होंने कहा कि चंदखुरी माता कौशल्या की जन्मस्थली है। भगवान राम का ननिहाल है। इसलिए यहां के खेत की मिट्टी को हाथ में लेकर शपथ लेना सौभाग्य है। पार्टी के प्रवक्ता डे ने बताया कि जोगी 21 जून से पार्टी के स्थापना दिवस से जन जन जोगी अभियान की शुरुआत कर रहे हैं। दस लाख कार्यकर्ता जोगी के शपथपत्र को लेकर मतदाताओं के घरों तक जाएंगे। मतदाताओं को शपथपत्र की प्रति दी जाएगी। उन्हें यह बताया जाएगा कि अगले साल जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ की सरकार बनी और शपथपत्र पर लिखे वादों को पूरा नहीं किया तो कोई भी व्यक्ति जोगी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई के लिए कोर्ट में शिकायत कर सकता है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 June 2017

बाल-बाल बची मंत्री रमशीला

धमतरी के नगरी के श्रृंगी ऋषि खेल मैदान में रविवार को साहू समाज के सामूहिक विवाह के दौरान दोपहर 12 बजे तेज हवा से पंडाल गिर गया। मंच का पंडाल सबसे पहले गिरा। तब मंच पर मौजूद महिला एवं बाल विकास मंत्री रमशीला साहू, सिहावा विधायक श्रवण मरकाम, पूर्व विधायक लेखराम साहू, साहू समाज के प्रदेशाध्यक्ष विपिन साहू, जिलाध्यक्ष दयाराम साहू समेत अन्य लोग बाल-बाल बचे। हादसे में 18 लोग घायल हो गए। तेज हवा से पंडाल का एक हिस्सा गिरने से अफरा-तफरी मच गई, लोग भागने लगे। पंडाल में विवाह के लिए 51 जोड़े समेत सैकड़ों लोग मौजूद थे। पंडाल गिरन से एक दुल्हन व एक दूल्हा समेत 18 लोग घायल हो गए। एक बच्चे और एक महिला की सिर में चोट लगी है। घायलों को नगरी के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। हादसे के दौरान मंत्री रमशीला साहू व विधायक श्रवण मरकाम की गाड़ी पंडाल का रॉड गिरने से क्षतिग्रस्त हो गईं। दुर्घटना के बाद मंत्री, विधायक अन्य जनप्रतिनिधि व साहू समाज के पदाधिकारियों ने अस्पताल जाकर घायलों का हालचाल लिया। घटना के बाद पंडाल को व्यवस्थित करा आदर्श विवाह करवाया गया। हादसे के बाद कुछ जोड़े लौट गए थे। इस संबंध में साहू समाज के प्रदेशाध्यक्ष विपिन साहू का कहना है कि प्राकृतिक आपदा के कारण घटना हुई। पंडाल लगाने में किसी तरह की लापरवाही नहीं बरती गई।  घायल -छेरकीन बाई (62) सेमरा, सुमन साहू (11) छिपली, यमुना निषाद (34) कोड़मुड़पारा, सुशीला साहू (53) सांकरा, मोहन साहू (65) नगरी, नीराबाई (34) पंडरीपानी, उर्मिला साहू (44) नगरी, सुलोचना मानिकपुरी (40) रानीगांव, कमला मानिकपुरी (70) रानीगांव, लताबाई साहू (36) अमाली, सुमिता साहू (15) नवागांव, पुष्पा साहू (5) अधारी नवागांव, कुंती साहू (45)सेमरा, राधिका साहू (23) सिहावा, महेश्वरी गुप्ता नगरी, अमृतबाई (45) मोदे, पनकीनबाई नेताम (25) सोनामगर, सरोज कुमार साहू (46) फरसियां।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 April 2017

आबकारी मंत्री अमर अग्रवाल

शराब दुकान खुलने के बाद सरकार अब शराबियों को पीने की सुविधा देने जा रही है। शराब दुकानों के पीछे या बगल में ही अहाता खोले जाएंगे, जिसे प्लेसमेंट एजेंसी के कर्मचारी संभालेंगे। सरकारी अहाते में केवल पानी मिलेगा। खाने के लिए कुछ भी नहीं। अहाता शुरू कराने का निर्देश सरकार ने सभी जिले के कलेक्टरों को जारी कर दिया है। सरकारी अहाता में कुर्सी-टेबल और पानी की नि:शुल्क सुविधा मिलेगी। पाउच और बोतल बंद पानी भी उपलब्ध रहेगा, लेकिन इसका पैसा लिया जाएगा। जहां मुमकिन हो, वहां पंखा लगाने का भी आदेश है। अहाता सुविधा नि:शुल्क है, इसलिए सरकार खर्च नहीं बढ़ाना चाहती है। हर शराब दुकान में पांच से सात कर्मचारी रखे गए हैं। मल्टीपरपज और सेल्समैन की संख्या अधिक है। इन्हें ही अहाता की व्यवस्था में लगाया जाएगा। अहाता की व्यवस्था करने में कलेक्टरों को दिक्कत हो रही है। इसका कारण यह है कि सरकार ने पहले कलेक्टरों को शराब दुकानों के लिए भवन का निर्माण और किराए पर व्यवस्था करने का आदेश दिया था। कलेक्टरों ने दुकान के हिसाब से ही भवनों की व्यवस्था की। कई दुकानों के पीछे या बगल में अहाता के लिए जगह नहीं है। इसलिए अभी अहाता वहीं खुल पाएंगे, जहां जगह है। जारी आदेश के अनुसार शराब दुकान और अहाता से कम से कम 50 मीटर दूरी पर चखना वाले ठेले खड़े हो सकेंगे। इससे कम दूरी होने पर उन पर कार्रवाई होगी। चखना बेचने के लिए फूड एंड ड्रग विभाग से लाइसेंस लेना होगा। सरकारी अहाता में चखना जैसे मिक्सचर, अंडा, सलाद या कोई दूसरी चीज नहीं मिलेगी। बाहर दुकान या ठेले से खरीदकर चखना अहाता में लाया जा सकेगा। इस पर रोक लगाने का आदेश नहीं हुआ है। आबकारी मंत्री अमर अग्रवाल का कहना है अहाता चलाने के पीछे सरकार का मकसद खुले में शराब पीने को बंद कराना है। लोग शराब खरीदने के बाद आसपास खड़े ठेलों से चखना लेकर वहीं पीना शुरू कर देते हैं। यह देखने को मिलता रहा है। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 April 2017

कांग्रेस जिलाध्यक्ष मोहन लालवानी

धमतरी में  एफसीआई अधिकारियों के साथ मारपीट के मामले में फरार राइस मिलर ने गुरुवार को बेटे व भतीजे के साथ सरेंडर कर दिया। पुलिस ने उन्हें कोर्ट में पेश किया, जहां से जेल भेज दिया गया। 14 जनवरी को एफसीआई गोदाम में कस्टम मिलिंग का चावल जमा कराने की बात को लेकर मिलर्स व एफसीआई के अधिकारियों के बीच मारपीट हो गई थी। दोनों पक्षों ने काउंटर रिपोर्ट दर्ज कराई थी। कांग्रेस जिलाध्यक्ष व राइस मिलर मोहन लालवानी, बेटा विनय उर्फ गोलू लालवानी व भतीजा अमित उर्फ सन्नी ललवानी के खिलाफ धारा 186, 332, 353, 294, 506, 427, 34 के तहत जुर्म दर्ज हुआ था। तब से तीनों फरार थे। गुरुवार को कोतवाली थाने पहुंचकर उन्होंने आत्मसमर्पण किया। सिटी कोतवाली थाना प्रभारी संतोष जैन ने बताया कि न्यायालय ने तीनों की जमानत अर्जी खारिज कर जेल भेज दिया है। गौरतलब है कि इस मामले में मिलर्स की रिपोर्ट पर एफसीआई के महाप्रबंधक ओपी सिंह समेत सबल वर्मा, दिनेश भंडारी व कुछ अन्य अध्ािकारियों के खिलाफ भी 294, 323, 506, 34 के तहत जुर्म दर्ज किया

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 January 2017

sukma

खबर सुकमा और धमतरी से है । 500 और 1000 के नोट बंद होने के बाद कालाधन रखने वाले मुश्किल में आ गए हैं। वे कैसे भी अपना पैसा सफेद करना चाह रहे हैं। ऐसे में इन्हें पकड़ने के लिए छत्तीसगढ़  में जगह-जगह चेकिंग चल रही है। सुकमा में चेकिंग के दौरान पांच सौ और हजार रुपए के नोट के 27 लाख रुपए जब्त किए गए हैं। ये नोट सुकमा से लेकर जा रहे थे, कुकानार में तलाशी के दौरान उन्हें बरामद किया गया। जानकारी के मुताबिक यह सारा पैसा सुकमा में एक कपड़ा व्यापारी है। धमतरी के बिरनासिल्ली कैंप के पास चेकिंग के दौरान कार में एक बैग के अंदर रखे 500-500 नोट के 30 लाख 92 हजार रुपए बरामद किए गए। कार में दो शख्स दिलीप मिश्रा और वीरेंद्र मिश्रा सवार थे। जानकारी के मुताबिक ये दोनों दुर्ग के रहने वाले हैं और पैसा जगदलपुर से दुर्ग ले जाया जा रहा था। सिहावा पुलिस ने चेकिंग के दौरान इसे बरामद कर लिया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 November 2016

dhantari

  दशहरे के दिन धमतरी के ग्राम कचना में हुई महिला की अंधेकत्ल की गुत्थी क्राइम ब्रांच और बिरेझर पुलिस ने सुलझा ली है। उसका सौतेला बेटा ही हत्यारा निकला। मां को मौत के घाट उतारने के बाद वह रामलीला में पहुंचकर सुग्रीव का रोल किया था। 11 अक्टूबर को बिरेझर पुलिस चौकी क्षेत्र के ग्राम कचना में विमला उर्फ ईशा पति डोमारसिंग मारकण्डे (48) की धारदार हथियार से हत्या कर दी थी। जानकारी डोमारसिंग को तब हुई जब वह रामलीला मंडली के पात्रों को सजाने-संवारने के बाद रावण दहन के लिए मिट्टीतेल लेने रात 8 बजे घर पहुंचा। क्राइम ब्रांच प्रभारी रमेश साहू ने बताया कि दशहरे के दिन शाम को चुम्मन मारकंडे (30) ने सौतेली मां से खाना बनाने कहा। इस पर उसने ताना मारते हुए कहा कि पत्नी को संभाल नहीं पाए। वह मायके जाकर बैठी है और मुझे खाना बनाने का हुकुम दे रहे हो। इस पर काफी विवाद हुआ। चुम्मन ने कहा कि तुम्हारे कारण मेरा पूरा परिवार बर्बाद हो गया है। पिता ने पूरी जमीन जायदाद बेच डाली। भूखों मरने के नौबत आ गई है। इसी दौरान कमरे में रखा तलवारनुमा धारदार हथियार लाया और विमला के गले और पीठ पर वार कर हत्या कर दी और गांव में चल रही रामलीला में पहुंचा और सुग्रीव का रोल किया। पुलिस ने चुम्मन को धारा 302 के तहत गिरफ्तार कर लिया है। पुलिसने बताया कि विमला कचना में ही दूसरे के घर शादी होकर आई थी, जिसके 7 बच्चे हैं। नजदीकियां बढ़ने पर वह करीब 8 साल से डोमारसिंग को पति बनाकर उसके साथ रहने लगी थी। बीच-बीच में वह पूर्व पति के घर भी चली जाती थी। डोमारसिंग की विवाहित पत्नी व बच्चे भी साथ में रहते थे। विमला से शादी के बाद डोमारसिंह ने डेढ़ एकड़ जमीन बेच डाली थी। इससे चुम्मन नाराज था।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 October 2016

dhaan

      धमतरी जिले में पहली बार आधा दर्जन सुगंधित धान के वेरायटियों की खेती हो रही है। जिसकी खुशबू से जिला महक उठेगा। बस्तर, अंबिकापुर और बिलासपुर के प्रसिद्ध धान फसलों पर जिले के किसानों ने दिलचस्पी दिखाकर अपने खेतों में जैविक पद्धति से प्रदर्शन लगाया हैं।   धमतरी की भूमि में अब तक केवल दूबराज धान की खुशबू उड़ी है, लेकिन इस साल खरीफ की खेती में एक साथ 6 सुगंधित धान फसलों की खुशबू महकेगी। जिसकी तैयारी में क्षेत्र के किसान जुट गए है। धमतरी, कुरुद, मगरलोड और नगरी के किसान आत्मा योजना से प्रेरित होकर पहली बार खुशबूदार धान फसलों की वेरायटी बिलासपुर के विष्णुभोग, जवांफूल, दुबराज, बस्तर के श्यामजीरा, तुलसीमंजरी और अंबिकापुर के लोहंदी की खेती करेंगे। कृषि विभाग के तहत संचालित आत्मा योजना के तहत किसानों को जैविक पद्धति से प्रदर्शनी लगाने बीज का वितरण किया जा चुका है। किसानों के खेतों में नर्सरी तैयार है, जिसकी रोपाई शुरू हो गई है।   आत्मा योजना के डिप्टी प्रोजेक्ट डायरेक्टर ने बताया कि कुरुद ब्लॉक में विष्णु भोग की खेती 22 एकड़, लोहंदी 13 एकड़ और जवांफुल की खेती 35 एकड़ में होगी। ग्राम परखंदा, जोरातराई गांव के किसान जैविक पद्धति से इस वेरायटी की धान फसल लगा रहे हैं। मगरलोड ब्लॉक के ग्राम चंदना में पहली बार 50 एकड़ जमीन पर दुबराज धान की खेती यहां के किसान कर रहे हैं। जबकि ग्राम बोड़रा में जवांफुल 20 एकड़ में लगाएंगे।   नगरी ब्लॉक के ग्राम बरबांधा, चनागांव, गोरसानाला, केरेगांव, छुही, मुकुंदपुर में 50 एकड़ में दुबराज की खेती होगी। धमतरी ब्लॉक के ग्राम कलारबाहरा, उरपुटी, डोमा, अछोटा, पुरी, आमदी के किसान दुबराज, तुलसीमंजरी, जीराफुल, जवांफुल धान की खेती कर रहे हैं। सुगंधित धान की वेरायटी की खेती 140 से 145 दिन में तैयारी हो जाती है। प्रति एकड़ 15 से 16 क्विंटल जबकि दुबराज 18 से 19 क्विंटल प्रति एकड़ उत्पादन होता है।   जिले में हो रही सुगंधित धान फसलों की खेती जैविक पद्धति से की जाएगी। किसानों को तनाछेदक से बचाव के लिए ट्राईकोग्रामा कार्ड व फेरोमोनट्रेप उपलब्ध करा दिया गया है। जीवाणु खाद एजोबेक्टर लिक्विड और पीएसबी के घोल दिया गया है। जिले के किसानों को उत्पादन लेने में सफलता मिलती है, तो अन्य किसानों को भी सुगंधित खेती के लिए प्रेरित किया जाएगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 July 2016

damtari

    धमतरी से 5 किमी दूर ग्राम चिटौद में पुट्टू ढाबा के सामने नेशनल हाईवे के किनारे युवक की लाश मिली। उसके पास पुलिस विभाग का पिस्टल भी पड़ा मिला। जांच करने पर उसके पेंट की जेब से आईकार्ड मिला जिसमें उसकी पहचान सब इंस्पेक्टर महेंद्र कबीर पंथी के रूप में हुई है। महेंद्र की पोस्टिंग नारायणपुर जिले में थी। माना जा रहा है कि एसआई ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या की है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।     Attachments area          

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 June 2016

sohan

  कहा भाजपा नहीं रही आदर्शो वाली पार्टी   भाजपा से निलम्बित हो चुके 4 बार के पूर्व सांसद सोहन पोटाई अब नई पार्टी बनाकर अपनी अगली सियासी पारी की शुरुआत करने के लिए बेकरार हैं ,उन्हें इंतजार है तो बस साल 2018 का जब चुनावी मैदान में उतरेंगे ।   पार्टी से निलम्बित होने के बाद पोटाई आज पहली दफा मीडिया के सामने आये और खुलकर पार्टी के प्रति अपनी भड़ास निकाली। पोटाई के मुद्दे भी वही है जो अजीत जोगी के हैं। वह छत्तीसगढ़ के लोगो के हक़ की लड़ाई लड़ने की बात कर रहे हैं।   उन्होंने कहा कि उनका साफ़ कहना है कि भाजपा अब अटल बिहारी बाजपेयी के आदर्शो वाली पार्टी नहीं रही। उन्हें भाजपा के साथ ही उनके नियंत्रण वाली किसी भी सरकार पर यकीन नहीं रहा।   सोहन पोटाई का कहना है कि 2018 में छत्तीसगढ़ के मूल निवासी की सरकार स्थापित करना है जिसके लिए वह सभी जाति वर्गों के लिए लड़ना चाहेंगे। उन्होंने कहा कि मैं छत्तीसगढ़ियों की गोद में हूं अब वो चाहे उछाल दे या गिरा दें। उन्होंने रमन सरकार पर उंगलिया उठाते हुए कहा कि सत्ता की मदहोशी के कारण पार्टी में खोखलापन आया है। कांग्रेस से अलग होकर अलग पार्टी बनाने जा रहे पूर्व सीएम अजीत जोगी के हाथ थमने के मुद्दे पर वह साफ़ कहते दिखे कि मैं अजीत जोगी के साथ नहीं जाऊंगा ।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 June 2016

Video

Page Views

  • Last day : 2842
  • Last 7 days : 18353
  • Last 30 days : 71082
Advertisement
Advertisement
Advertisement
All Rights Reserved ©2017 MadhyaBharat News.