Since: 23-09-2009

Latest News :
शाह ने कहा- दंगों के वक्त मेरे साथ विधानसभा में थी माया.   प्रद्युम्न की हत्या के बाद खुला रेयान स्कूल.   आतंकवाद से साथ मिलकर लड़ेंगे भारत-जापान:शिंजो आबे.   प्रद्युम्न मामले में जुवेनाइल एक्ट के तहत होगी कार्रवाई.   साक्षरता के क्षेत्र में मध्यप्रदेश राष्ट्रीय पुरस्कारों से नवाजा गया.   छत्तीसगढ़ को मिले चार राष्ट्रीय पुरस्कार.   मध्यप्रदेश के सभी गाँव और शहर खुले में शौच से मुक्त किये जाएंगे.   शिवराज ने ग्राम रतनपुर में किया श्रमदान.   डेंगू लार्वा मिलने पर होगा 500 रुपये का जुर्माना.   पदयात्रा में जनहित विकास कार्यों की शुरुआत.   लोगों से रू-ब-रू हुए मुख्यमंत्री चौहान.   फैलोज व्यवहारिक और सैद्धांतिक अनुभवों पर आधारित सुझाव दें.   मजदूरों को छत्तीसगढ़ में पांच रूपए में मिलेगा टिफिन.   अम्बुजा सीमेंट में पिस गए दो मजदूर.   एम्बुलेंस ये ले जाती है नदी पार .   भालू के हमले से दो की मौत.   जोगी की जाति के मामले में सुनवाई फिर टली.   5 ट्रेनें रद्द, दो-तीन दिन बनी रहेगी परेशानी.  

महासमुन्द News


कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल

  छत्तीसगढ़ के सिरपुर में कथित सरकारी जमीन पर रिसोर्ट बनाने के मामले में फंसे प्रदेश के कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल के परिजनों के खिलाफ सरकार सिविल कोर्ट में परिवाद दायर करेगी। महासमुंद जिला प्रशासन ने जांच रिपोर्ट के आधार पर संबंधित विभागों को यह निर्देश दिया है। महासमुंद कलेक्टर हिमशिखर गुप्ता का कहना है कि कलेक्टर को सीधे रजिस्ट्री पर किसी तरह का फैसला करने का अधिकार नहीं है। रजिस्ट्री को बहाल रखने या रद्द करने का आदेश सिविल न्यायालय ही दे सकता है। उन्होंने स्पष्ट किया कि इस मामले में मंत्री या उनके परिजनों को नोटिस देने का सवाल ही नहीं है। हम विभागीय स्तर पर कार्रवाई कर रहे हैं। कमिश्नर के आदेश पर जल संसाधन, वन और राजस्व विभाग के अफसरों की कमेटी ने इस मामले की जांच कर 2 महीने पहले रिपोर्ट दे दी थी। मामले के दोबारा प्रकाश में आने के बाद फिर से जांच कराई गई, जिसकी रिपोर्ट भी सौंप दी गई है। अब संबंधित विभागों को प्रकरण का निराकरण करने कहा है। इसके लिए जल्द ही सिविल न्यायालय में वाद दायर किया जाएगा। कोर्ट के निर्णय के आधार पर संबंधित भूमि का निराकरण हो पाएगा। बृजमोहन पहुंचे दिल्ली उधर जल संसाधन से संबंधित बैठक में शामिल होने बृजमोहन दिल्ली चले गए हैं। माना जा रहा है कि वे इस प्रकरण में भाजपा के वरिष्ठ नेताओं के समक्ष अपना पक्ष रखेंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 July 2017

loot

महासमंद में लूट की फर्जी कहानी गढ़ने वाला युवक गिरफ्तार कर लिया गया है। गुरुवार-शुक्रवार की दरम्यानी रात 12.30 बजे देवप्रसाद पटेल (38) पिता खगेश्वर पटेल निवासी लीमदरहा ने फोन से क्राइम स्क्वाड के आरक्षक डिग्रीलाल नंद को सूचना दी  कि सांकरा और झगरेनडीह के बीच जंगल में सागौन प्लांट के पास तीन अज्ञात मोटरसाइकिल चालकों द्वारा उसके पास रखे 10 लाख 90 हजार रुपए को कट्टा दिखाकर लूट कर भाग गए हैं। सूचना पर पुलिस अधीक्षक नेहा चम्पावत ने क्राइम स्क्वाड की टीम को अलर्ट किया। टीम ने मौके पर पहुंचकर देवप्रसाद से घटना के संबंध में पूछताछ कर जानकारी ली। देवप्रसाद पटेल द्वारा बताया गया कि वह फिनो कम्पनी में ब्लाक समन्वयक के पद पर कार्यरत है । 5 जनवरी गुरूवार को महासमुंद स्थित आईसीआईसीआई बैंक से शाम 5-6 बजे के मध्य 11 लाख 34 हजार 172 रुपए आहरण कर बैग में लेकर फिनो कार्यालय अयोध्या नगर महासमुंद गया । जहां कुछ रकम जमा कर अपने बैग में 10 लाख 90 हजार 420 रुपए लेकर देर शाम 7.30 बजे अपने निवास ग्राम लिमदरहा जाने के लिए मोटर साइकिल क्रमांक सीजी 06 जीजी 8002 से अकेले रवाना हुआ । उसी दौरान पीछे वाले मोटर साइकिल से पीछे बैठा हुआ व्यक्ति जो चेहरे को गमछे से ढंका हुआ था, ने आकर पेट में कट्टा टिकाकर माने की धमकी देकर बैग को ले लिया और जैकेट के उपर जेब में रखे सैमसंग कम्पनी का मोबाइल को लेकर तीनों व्यक्ति सांकरा की ओर वापस भाग गए । जाते वक्त उसके मोटर साइकिल का चाबी भी ले गए । उनके जाने के बाद उसके शर्ट के जेब में रखे एक अन्य मोबाइल से कॉल करना बताया। क्राइम स्क्वाड की टीम त्वरित कार्रवाई करते हुए आसपास तलाश किया। घटनास्थल की बारीकी से निरीक्षण करने पर घटनास्थल के आगे चाबी मिला। इससे और शंका हुआ। हॉटल वाले से पूछताछ करने पर बताया कि वह खाना खाया था। ऐसा लग रहा था कि वह हॉटल में समय व्यतीत कर रहा है। बार-बार हॉटल से बाहर निकल कर किसी को फोन कर रहा था । तब यह बात पूर्ण रूप से सिद्ध हो गया कि पीड़ित झूड बोल रहा है। बैंक से निकाले गए नोटों के संबंध में डिटेल चाहा गया तो बताने में असमर्थ रहा।    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 January 2017

नोटबंदी  नक्सलियों

नोटबंदी के चलते छत्तीसगढ़ और झारखंड में माआेवादियों समेत सभी नक्सलियों की कमर ही टूट गई है और खुफिया सूचनाओं के अनुसार उनके कम से कम अस्सी करोड़ रूपये तक केन्द्र सरकार के इस निर्णय के चलते बर्बाद हो गए हैं और वे बौखलाए हुए हैं। झारखंड पुलिस के प्रवक्ता अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक आरके मलिक ने एक विशेष साक्षात्कार में यहां बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के पिछले वर्ष आठ नवंबर को पांच सौ और एक हजार रूपये के पुराने नोटों का चलन बन्द करने के फैसले का राज्य में चल रहे नक्सलवाद के खात्मे पर जबर्दस्त प्रभाव पड़ा है और खुफिया सूचनाओं के अनुसार उनकी कम से कम अस्सी करोड़ रूपए की नकदी बर्बाद हो गयी है।   मल्लिक ने बताया कि लगभग पूरा का पूरा अर्थतंत्र बर्बाद हो जाने से नक्सलियों की कमर टूट गयी है और बौखलाहट में वह कथित विचारधारा की लड़ाई छोड़कर नकदी लूटने की फिराक में हैं लेकिन सरकार ने उनकी किसी भी साजिश को नाकाम करने के लिए पुख्ता तैयारी कर रखी है। एक सवाल के जवाब में उन्होंने बताया कि एक खुफिया अध्ययन के अनुसार तीन वर्ष पूर्व नक्सलियों की राज्य में लेवी की पूरी कमाई लगभग 140 करोड़ रूपये थी जो पिछले कुछ वर्षों में सुरक्षाबलों की कार्रवाई और विकास कार्यों के चलते घटकर लगभग सौ करोड़ रूपये तक रह गयी है।    उन्होंने बताया कि खुफिया सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार प्रधानमंत्री के आठ नवंबर के फैसले के चलते एक वर्ष के खर्चे के लिए रखी गई माआेवादियों एवं अन्य नक्सली संगठनों की लगभग सौ करोड़ रूपए की नकदी खराब हो गई। सूचनाओं के अनुसार बाद में अपने सदस्यों एवं सहयोगियों की मदद से एवं गरीब, किसानों तथा ग्रामीणों को डरा धमकाकर माआेवादी एवं अन्य नक्सली लगभग बीस करोड़ रूपए तक के ही पुराने नोट नए नोटों से किसी तरह बदलवा पाए।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 January 2017

mahasamund

महासमुंद में  कोर्ट से आदेश होने के 14 महीने बाद भी गुजारा भत्ता नहींं मिलने पर आज कथित तौर पर दहेज प्रताड़ित इश्मा खान अपनी तीन बहनों के साथ शहर भ्रमण पर निकली हैं। इस दौरान इनके हाथों में 1 नवम्बर को आत्मदाह करने का बैनर भी था। ईशमा ने बताया की फरवरी 2012 में रायपुर में शादी हुई। 6 महीने तक उसे दहेज के लिए प्रताड़ित किया गया। बाद मायका भेज दिया गया। समाज में निर्णय हुआ कि पति द्वारा गुजारा भत्ता दिया जाये और मैहर की रकम लौटाई जाए। आरोपी ने समाज के निर्णय का पालन नहीँ किया। बाद मामला थाना में गया। यहां 498 का अपराध दर्ज किया गया। जिसका प्रकरण रायपुर न्यायालय में विचाराधिन है। इस बीच पीड़ित पक्ष ने गुजारा भत्ता का आवेदन कौर्ट में लगाया जिस पर 14 महीने पहले कोर्ट ने 2 हजार प्रतिमाह भत्ता दिए जाने का फैसला दिया। आरोपी ने कोर्ट के फैसले के बाद भी राशि नहीँ दी। तब अवमानना लगाया गया। बाद भी कोई असर नहीं होने से पीड़िता ने 1 नवम्बर को आत्मदाह करने की चेतावनी दी है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 October 2016

छत्तीसगढ़ के घोटाले

  कांग्रेस ने किया "रमन के खोट" को प्रकाशित छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस जोगी ने छत्तीसगढ़ की रमन सिंह सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। जोगी की पार्टी का आरोप है कि रमन के शासनकाल में एक लाख करोड़ के घोटाले हुए हैं।  महासमुंद में छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस जोगी द्वारा आज नगर के पुराने रेस्ट हॉउस में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह के 13 वर्षों के कार्यकाल में 1 लाख करोड़ के घोटाले पर एक रिपोर्ट "रमन के खोट" का विमोचन किया गया। कांग्रेस ने सरकार पर निशाना साधा और कहा कि रमन सिंह की भाजपा सरकार ने प्रदेश में भ्रष्टाचार को काफी बढ़ावा दिया है। यह इस बात का सबूत है कि किस प्रकार यह सरकार काम कर रही है। कांग्रेस की इस प्रेसवार्ता के बाद से अभी रमन सिंह सरकार की ओर से इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 October 2016

mahasamund hadsa

महासमुंद जिले के सांकरा थाना से लगे भगतदेवरी राष्ट्रीय राजमार्ग 53 के पास एक अज्ञात कार चालक ने लापरपूर्वक वाहन चलाते हुए रास्ता पार कर रहे आठ वर्षीय मासूम छात्र को चपेट में ले लिया जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। बताया जाता है कि दूसरी कक्षा का मासूम छात्र रोशन कोंद रोज के भांति भगतदेवरी प्राथमिक शाला जा रहा था तभी यह घटना हुई। घटना के बाद सभी स्कूली बच्चों एवं ग्रामीणों ने सड़क पर बच्चे का शव रख हाइवे जाम कर दिया। सुबह करीब दस बजे से जाम चक्का प्रशासन के आश्वसन के बाद शांत हुए। गुस्साए लोगों के शांत होने के बाद पुलिस सीसीटीवी कैमरे की सहायता से वाहन के बारे में पता लगा रही है। जानकारी के मुताबिक भगतदेवरी प्राथमिक शाला हाइवे से लगे होने के कारण बच्चों के जान को हमेशा खतरा बना रहता है। बुधवार सुबह 9 बजे रोज की भांति भगतदेवरी निवासी रोशन कोंद पिता बिहारी कोंद अपने दोस्तो के साथ शाला जा रहा था। तभी रायपुर की ओर जा रही वेगनआर चालक ने तेज एवं लापरवाहीपूर्वक वाहन चलाते हुए बच्चे को चपेट में ले लिया जिसके बाद वह फरार हो गया है। घटना की जानकारी लगते ही परिजन रोते बिखलते घटना स्थल पहुंचे । इसके बाद करीब 80-100 बच्चे के साथ सैंकड़ों ग्रामीणों ने चक्का जाम कर दिया। प्रशासन को सूचना मिलने पर एसडीएम पिथौरा श्री टंडन, तहसीलदार, एसडीओपी श्रीवास्तव, सांकरा थाना प्रभारी राजेद्र गेंदले पहुंचे। जहां ग्रामीणों की मांग को आश्वासन देते हुए मामला शांत कराया।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 September 2016

छत्तीसगढ़ में नोनी-महतारी स्वाभिमान अभियान

रमन बोले महिलाओं एवं बालिकाओं के विकास की अनूठी पहल  छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन  सिंह ने  महासमुंद जिले के तहसील मुख्यालय बसना में नोनी महतारी स्वाभिमान अभियान का शुभारंभ किया। उन्होंने समारोह को सम्बोधित करते हुए जिला प्रशासन की पहल पर महिलाओं एवं किशोरी बालिकाओं के समन्वित विकास के लिए संचालित इस अभिनव योजना की काफी सराहना की। उन्होंने कहा कि महिलाओं और बच्चों के समन्वित विकास के लिए अपने आप में यह अनूठा अभियान है। बालिकाओं के अच्छे भविष्य की आधारशिला रखने सहित महिलाओं के समग्र सामाजिक तथा आर्थिक विकास के लिए संचालित यह अभियान 31 अक्टूबर 2016 तक चलाया जाएगा। इसके तहत प्रत्येक ग्राम तथा ग्राम पंचायत स्तर तक बालिकाओं और महिलाओं से संबंधित संबंधित योजनाओं तथा सेवाओं का प्रचार-प्रसार कर सभी विभागों के समन्वय से उन्हें अधिकाधिक लाभान्वित किया जाना है। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने इस अवसर पर नोनी-महतारी स्वाभिमान अभियान की प्रदर्शनी का भी अवलोकन किया। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर जिले के विकास के लिए लगभग 137 करोड़ रुपए के 95 विकास कार्यों का लोकार्पण और भूमिपूजन किया। इसमंे 35 करोड़ रुपए के 25 कार्यों का लोकार्पण और 102 करोड़ रुपए के 70 कार्यों का भूमिपूजन किया। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर सरकार की विभिन्न लोक कल्याणकारी योजनाओं और कार्यक्रमों के अंतर्गत 5 हजार 343 हितग्राहियांे को लगभग 4 करोड़ रुपए की सहायता राशि, ऋण और सामग्री वितरित किए। मुख्यमंत्री डा. सिंह ने इस अवसर पर जिले में हाल ही में  ओडीएफ घोषित 22 ग्राम पंचायतों के सरपंचों को सम्मानित किया एवं शुभकामनाए दी। इस अवसर पर उन्होंने नोनी-महतारी अभियान से संबंधित जिला प्रशासन पुस्तिका का विमोचन ओर स्वच्छ भारत मिशन जिले के प्रतीक चिन्ह (लोगो)े का लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने स्वच्छता अभियान में वातावरण निर्माण में उल्लेखनीय योगदान के लिए श्री अशोक शर्मा, श्री ओमनारायण शर्मा, श्री रेखराज शर्मा, श्री एफ.ए. नंद को भी सम्मानित किया। मुख्य अतिथि की आसंदी से मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि शासन की महत्वपूर्ण प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत राज्य में दो साल के भीतर 25 लाख गरीब परिवारों को रसोई गैस सिलेंडर प्रदान किया जाएगा। इसके लिए प्रत्येक हितग्राही को मात्र दो सौ रूपए के पंजीयन शुल्क पर डबल बर्नर गैस का चूल्हा और एक भरे हुए गैस का सिलेंडर मिलेगा। यह योजना महिलाओं को धूल और धुंए की समस्या सहित टी.बी. तथा अस्थमा जैसे बीमारियों की समस्या से भी छुटकारा दिलाने में महत्वपूर्ण साबित होगी। मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने कहा कि राज्य में विगत बारह वर्षों के दौरान तेजी से हो रहे विकास के फलस्वरूप हर क्षेत्र में परिवर्तन दिखाई दे रहा है। इसके तहत राज्य में समाज के सभी वर्ग के लोगों के उत्थान का प्रयास हो रहा है। इनमें राज्य के बहुसंख्यक वर्ग किसानों के हितों को ध्यान मंे रखते हुए राज्य सरकार द्वारा हाल ही मंे महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया है। इसके तहत राज्य में किसानों को सिंचाई सुविधा के विस्तार के लिए  50 हजार सोलर पम्प वितरित किए जाएंगे। आगामी दो वर्षों मंे इसका वितरण सुनिश्चित किया जाएगा। डॉ. सिंह ने कहा कि लगभग पांच लाख रुपए की लागत के सोलर पम्प किसानों को महज 15 हजार से 25 हजार रुपए की कीमत पर उपलब्ध कराए जाएंगे।  डॉ. सिंह ने किसानों के लिए चलाए जा रहे विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी देते हुए बताया कि राज्य सरकार द्वारा किसानों को वर्तमान में शून्य प्रतिशत ब्याज पर सहकारी बैंकों से ऋण उपलब्ध कराया जा रहा है। उन्होंने जल संरक्षण और सिंचाई सुविधाओं क विस्तार के लिए किसानों को अपने-अपने खेतों में डबरी बनाने के लिए प्रोत्साहित किया । उन्होंने कहा कि राज्य सरकार इसके लिए पैसा देगी। उन्होंने राज्य में स्वच्छ भारत मिशन के सफलता पूर्वक तेजी से संचालन पर प्रसन्नता व्यक्त की और कहा कि इसे देखते हुए प्रदेश मंे मिशन को निर्धारित लक्ष्य से एक वर्ष पहले 2018 में ही पूर्ण हो जाने की प्रबल संभावना है। मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए राज्य के सम्पूर्ण विकास के लिए सड़क, बिजली, भवन, पानी आदि क्षेत्रों में काफी तादाद में हो रहे कार्यों के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि आगामी दो साल के भीतर महासमुंद जिले का कोई भी पारा तथा मोहल्ला बिजली सुविधा से वंचित नहीं होगा।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 September 2016

ISIS

        रायपुर में  छत्तीसगढ़ के गृहमंत्री राम सेवक पैकरा ने कहा है कि आईएसआईएस के नक्सलियों से भी संबंध हैं। पुलिस अभी इसकी पड़ताल कर रही है और छत्तीसगढ़ पुलिस आतंकी गतिविधियों से भी निपटने में सक्षम है।   बांग्लादेश की घटना के बाद देश में जारी हुए अलर्ट पर पैकरा ने मंगलवार को मीडिया से चर्चा के दौरान कहा कि आतंकी गतिविधियों पर सरकार सख्त कार्रवाई कर रही है और इसे लेकर लेकर हम अलर्ट भी हैं। उल्लेखनीय है कि आईएसआईएस की नक्सलियों से सांठगांठ की बात पहले भी सामने आ चुकी है।   वृंदावन से एटीएस ने कुछ महीने पहले आईएसआईएस के संदेहियों को हिरासत में लिया था जिनके पास से विस्फोटक भी बरामद हुए थे। इसी कड़ी में जब इसकी पड़ताल की गई तो पता चला था कि यह विस्फोटक नक्सली उन्हें सप्लाई कर रहे हैं। तब से इस पूरे मामले में नक्सलियों के भी संबंधों को लेकर जांच चल रही है।   छत्तीसगढ़ पुलिस को दिल्ली से इस बारे में कई बार अलर्ट आ चुका है। इसे लेकर नक्सल क्षेत्र में भी नजर रखी जा रही है। छत्तीसगढ़, ओडिशा, आंध्रप्रदेश और झारखंड पुलिस की कई बार गृह मंत्रालय के अफसर बैठक ले चुके हैं और उन्होंने इस बारे में उन्हें हिदायत भी दी थी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 July 2016

ambikapur

    अंबिकापुर में भाजपा कार्यसमिति की बैठक      अंबिकापुर में  भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में सीएम रमन सिंह, भाजपा राष्ट्रीय सह संगठन मंत्री सौदान सिंह, प्रदेश अध्यक्ष धर्मलाल कौशिक शामिल हुए। सीएम रमन सिंह ने अजीत जोगी पर किया पलटवार करते हुए कहा कि वे दल के सर्वेसर्वा बनना चाहते हैं, इसलिए उन्हांने राजनीतिक पार्टी बनाई है। मुख्यमंत्री ने कहा सरकार की चुनौती अगले दो सालों में योजनाओं को अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने की है। भाजपा अनुशासन और परिवार भाव से काम करती है, डर या भय से नहीं।   दो दिन चलने वाली इस बैठक में प्रदेश में पार्टी को आगे बढ़ाने के‍ लिए विचार विशर्म किया गया। दो दिन सीएम अंबिकापुर में ही रुकेंगे। मयूर होटल में चल रही बैठक को लेकर शहर में ट्रैफिक व्यवस्था में बदलाव किया गया है। जिससे जगह-जगह जाम लग गया।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 June 2016

mahasamund

    महासमुंद में  पंचायत मंत्री अजय चंद्राकर को जादू-टोरने से मारने की कोशिश में दो लोगों ने बैगा गुनिया को 10 लाख रुपए देने की पेशकश की थी। बैगा ने पुलिस में जाकर इस मामले में रिपोर्ट दर्ज करवाई। पुलिस ने मामले में तुमगांव के निवासी दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।   जानकारी के मुताबिक तुमगांव निवासी कृपाराम साहनी(50) और ढेलूराम टंडन(70) बैगा गुनिया के पास पहुंचे और उससे जादू-टोने से मंत्री अजय चंद्राकर को मरवाने की बात कही। इसके बदले में दोनों ने उसे 10 लाख रुपए देने की पेशकश भी की। दोनों आरोपियों ने उससे कहा था कि हमें सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं मिल रहा। इसी वजह से मंत्रियों का मरना जरूरी है। इतना ही नहीं मंत्री चंद्राकर को रास्ते से हटाने के बाद आगे उन्होंने दूसर अन्य मंत्रियों को मरवाने के लिए भी पैसा देने की बात कही थी।   पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ अपराध के लिए दुष्प्रेरित करने की धारा 115, जान से मारने की धमकी की धारा 506 बी और एक ही उद्देश्य के लिए एक से अधिक आरोपी होने पर 34के तहत धाराएं लगाई हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 June 2016

Video

Page Views

  • Last day : 2842
  • Last 7 days : 18353
  • Last 30 days : 71082
Advertisement
Advertisement
Advertisement
All Rights Reserved ©2017 MadhyaBharat News.