Since: 23-09-2009

Latest News :
दिल्ली में हेलिकॉप्टर से पानी के छिड़काव की तैयारी.   अचार, मुरब्बा बनाने की तकनीक दुनिया को करती है उत्साहितः मोदी.   गुजरात में चुनाव दिसम्बर में होने के संकेत.   मीडिया की गति और नियति.   PM मोदी, पूर्व पीएम मनमोहन सिंह की मौजूदगी में रावण दहन .   राज ठाकरे की चुनौती, पहले सुधारो मुुंबई लोकल फिर बुलेट ट्रेन की बात.   कबीर की शिक्षा समाज के लिये संजीवनी : कबीर महोत्सव में राष्ट्रपति श्री कोविंद.   चित्रकूट में एक हजार से अधिक लायसेंसी हथियार जमा.   भावांतर भुगतान योजना में एक लाख 12 हजार से अधिक किसानों द्वारा 32 लाख क्विंटल उपज का विक्रय .   उद्योग संवर्द्धन नीति-2014 में संशोधन की मंजूरी.   मुख्यमंत्री शिवराज के निवास पर दशहरा पूजा.   मानव जीवन के लिए नदी बचाना जरूरी : चौहान.   मूणत CD कांड - फॉरेंसिंक रिपोर्ट आते ही शुरू होगी CBI जांच.   मूणत की CD का सच सीबीआई को सौंपने दिल्ली पहुंची एसआईटी.   पुलिस लाइन रायगढ़ के प्रशासनिक भवन में आग.   बीमार पत्नी से झगड़ा पति, हत्या कर फांसी पर झूला.   बस्तर दशहरा के लिए माई जी को न्यौता.   बस्तर को अलग राज्य बनाने की मांग.  

बलौदाबाजार भाटापारा News


बलौदाबाजार

  रसोई गैस सिलेंडर उपभोक्ता अब स्वाइप में एटीएम कार्ड स्वेप कर सिलेंडर ले सकेंगे। इसके साथ ही सिलेंडर की खरीदी में भी कैशलेस ट्रेडिंग की शुरुआत हो चुकी है। गैस एजेंसियों के 75 प्रतिशत ग्राहक कैशलेस हो चुके हैं। जिले की 17 गैस एजेंसियों द्वारा डिजिटल सिस्टम के माध्यम से 75 प्रतिशत ग्राहकों को जोड़ा गया है। इसी तरह शासकीय संस्थानों में सभी भुगतान कैशलेस पद्घति से किया जा रहा है। जिले को कैशलेस बनाने के लिए विशेष अभियान के तहत बलौदाबाजार जिला मुख्यालय से ग्राम पंचायत तक मास्टर ट्रेनरों द्वारा प्रशिक्षण व शिविर लगाकर कैशलेस पद्घति को प्रेरित कर कैशलेस से जुड़ने के लिए आह्वान किया जा रहा है। चिह्लर की समस्या से उपभोक्ताओं को निजात दिलाने, नगद भुगतान पर रोक लगाने के साथ ही लोगों को केडिट व डेबिट कार्ड के जरिए मार्केटिंग करने की आदत डालने हेतु एलपीजी निर्माता कंपनियों ने निर्देश जारी किए हैं। निर्देश के बाद डेबिट या फिर क्रेडिट कार्ड के जरिए रसोई गैस सिलेंडर की बिक्री शुरू हो चुकी है। एलपीजी निर्माता कंपनियों ने अपने डीलरों को मेल व पत्र के माध्यम से आवश्यक गाइड लाइन जारी की थी जिसमें डीलरों से ऑफिस में इस्तेमाल किए जाने वाले लैंड लाइन या फिर मोबाइल नंबर की जानकारी मांगी गई । इसके अलावा संबंधित नंबर किस कंपनी का है इसका भी उल्लेख करने को कहा गया था। मोबाइल नंबर व कंपनी का नाम देने के बाद रसोई गैस निर्माता कंपनी एजेंसी संचालकों के नाम को अपने सर्वर से कनेक्ट करने के बाद स्वेपिंग मशीन के अलए एलपीजी कंपनियों द्वारा डिमांड भेजा गया है। डिमांड के आधार पर मशीन जारी कर कंपनी इसे अपने मेन सर्वर जोड़ चुकी है। जिसके बाद यह मशीन ने काम करना शुरू कर दिया है। रसोई गैस सिलेंडर व्यवसाय से जुड़े एक व्यवसायी के अनुसार गैस सिलेंडर की खरीदी में स्वेप सिस्टम लागू करने के पीछे लोगों के इसके लिए प्रेरित करना हैं। उच्च वर्ग से लेकर मध्यमवर्गीय व निम्न आय वर्ग के लोगों की रसोई में अब गैस सिलेंडर ही नजर आता है। रसोई गैस सिलेंडर की खरीदी में स्वाइप के इस्तेमाल से नगद के बजाय कार्ड के जरिए भुगतान की आदत बनेगी। इसी के साथ अन्य सामानों की खरीदी में भी इसका प्रचलन बढ़ेगा। खाद्य विभाग के आंकड़ो पर नजर डाले तो विभाग के मुताबिक जिले में इण्डेन, बीपीसीएल व एचपीसीएल कंपनी के तकरीबन 50 हजार से अधिक उपभोक्ता है। इनमें उज्जवला योजना से लाभान्वित हितग्राहियों की संख्या को जोड़ दिया जाए तो यह आकड़ा और बढ़ जाएगा। इनको अलग-अलग कंपनियों के डीलरों द्वारा रसोई गैस सिलेंडर की आपूर्ति की जाती है। कलेक्टर बलौदाबाजार डॉ. बसवराजु एस नगरीय निकाय में संचालित गैस एजेंसियों, पेट्रोल पंप मेडिकल स्टोर्स के प्रबंधकों को प्रचार-प्रसार कर शत प्रतिशत कैशलेस सिस्टम से जोड़ने के लिए जागरूक किए जाने के लगातार प्रयास किए जा रहा हैं। जिले की 17 गैस एजेंसियों द्वारा डिजिटल सिस्टम के माध्यम से 75 प्रतिशत ग्राहकों को जोड़ा गया है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 January 2017

baloda bazar belmand

  बालोद में अब महिलाओं के साथ गांव की युवतियां भी समाज में बदलाव लाने के लिए सामने आ रही हैं। बालोद से 20 किमी दूर ग्राम बेलमांड में लड़कियों का भी एक संगठन काम कर रहा है, जो समाज में बदलाव लाने के लिए तत्पर है। यहां कक्षा 9 वीं से कालेज तक पढ़ने वाली लड़कियों ने 'नई दिशा' नाम से एक संघ बनाया है। एक साल से काम कर रही इन लड़कियों के कारण आज ग्राम बेलमांड की तस्वीर बदल गई है। महिला कमांडो से ज्यादा इस गांव में लड़कियों की सक्रियता है। पहले चौक चौराहों में खुले आम शराब पीते थे वह अब बंद हो गया है। बेलमांड में कक्षा 9 वीं से कॉलेज तक पढ़ने वाली लड़कियों ने नई दिशा नाम से एक संघ बनाया है। नेतृत्व कॉलेज छात्रसंघ की पूर्व अध्यक्ष रेशमी साहू कर रही हैं। टीम में सचिव दीपिका साहू, मिथलेश्वरी, संतोषी उर्वशा, ललेश्वरी नेताम, प्रिया यदु, प्रियंका, पुष्पा, ऋतू, टिकेश्वरी सहित अन्य स्कूली छात्राएं शामिल हैं। इन लड़कियों ने गांव का माहौल बदलने के लिए पहले अपने घर से शुरुआत की। किसी के घर भाई तो किसी के पिता शराब सेवन करते थे वे भी बेटियों की समझाइश से एक साल के भीतर शराब पीना छोड़ दिए हैं। स्वच्छता का संदेश देने के लिए लड़कियों ने अपने खर्चे से गांव के पांच जगह पर कूड़ादान का निर्माण किया है। इसमे खुले में कचरा फेंकने के बजाय ग्रामीण एक निश्चित स्थान में कचरा डालते है। गांव को पॉलीथिन मुक्त करने के लिए भी ये बेटियां काम करती हैं। लड़कियों ने पेपर कागज से कैरी बैग का निर्माण किया है। इसका वितरण समय-समय पर दुकानदारों को किया जाता है। वहीं गांव को ओडीएफ बनाने के लिए भी लड़कियां काम कर रही हैं। लड़कियां खुले में शौच जाने वालों की भी निगरानी करती हैं। टीम की दीपिका, सुमन चांदनी, ऋतु, टिकेश्वरी ने कहा कि युवा पीढ़ी नई सोच के साथ आगे बढ़ रही है। इसी सोच को सार्थक बनाने के लिए हमने टीम बनाई है। टीम ग्राम के चौक चौराहों पर निगरानी करती है। जहां पहले शराब पीते जाता था। वह अब बंद हो गया है। अध्यक्ष रेशमी साहू ने बताया कि हमारा मकसद गांव को सुधारने के साथ अपनी निजी जीवन को भी सुधारना है। सभी लड़कियों की सोच है कि उनके होने वाले पति शराब पीना तो दूर की बात अगर गुटखा भी खाते होंगे तो वे शादी के लिए तैयार नहीं होंगे। इस साल टीम की चार लड़कियों की शादी हुई है। उनके पति कोई नशा नहीं करते हैं। ऐसा सभी लड़कियां व उनके पालक वर्ग भी चाहते हैं कि होने वाले पति किसी तरह का नशा न करता हो ताकि परिवार खुशहाल रहे। ग्राम विकास समिति बेलमांड के अध्यक्ष नरेन्द्र साहू ने कहा लड़कियों के नशामुक्ति के प्रयास से ग्रामीण प्रभावित हुए हैं। सार्वजनिक स्थानों में शराब सेवन पर पाबंदी लगाने व हुल्लड़ को रोकने के लिए पांच सौ रुपए अर्थदंड का नियम भी बनाया गया है। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 December 2016

iti raipur

जावड़ेकर ने किया देश के 30वें आईआईटी का लोकार्पण   अगले सत्र से माइनिंग ब्रांच भी   छत्तीसगढ़ में उच्च शिक्षा की एक नई उपलब्धी को जोड़ते हुए देश के 30 वें भिलाई आईआईटी का रविार को केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने विधिवत उद्घाटन किया। जावड़ेकर ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का फोकस पूरी तरह इनोवेशन पर है और रिसर्च बेस्ड एजुकेशन के जरिए सरकार देश की उच्च शिक्षा में बड़ा सुधार करना चाहती है, ताकि हमारे छात्र उच्च शिक्षा और फिर नौकरी के लिए अमेरिका ने जाकर यहीं अपना बेहतर भविष्य गढ़ सकें।   इस मौके पर जावड़ेकर ने एक महत्वपूर्ण घोषणा करते हुए कहा कि राज्य में माइंस के क्षेत्र में बड़ी संभावनाओं को देखते हुए अगले शिक्षा सत्र से यहां आईआईटी में माइनिंग ब्रांच भी शुरू की जाएगी। जावड़ेकर ने कहा कि इस वर्ष शुरू किए गए सभी 7 नए आईआईटी को जल्द ही कानूनी मान्यता मिल जाएगी। इसकी सभी प्रक्रियाएं पूरी हो गई हैं। अभी नए आईआईटी का संचालन सोसाइटी के माध्यम से किया जा रहा है।   सेजबहार स्थित अस्थाई कैंपस में आयोजित उद्घाटन कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह, उच्च शिक्षा मंत्री प्रेम प्रकाश पांडे, मंत्री अजय चंद्राकर, राजेश मूणत, मुख्य सचिव विवेक ढ़ांढ, उच्च शिक्षा-तकनीकि शिक्षा सचिव सहित आईआईटी स्टाफ व छात्र उपस्थित थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 August 2016

baloda bazar

        बलौदा बाजार के  लटुआ रसेड़ा गांव में जमीन विवाद में एक ही परिवार के चार लोगों की निर्ममता से हत्या का सनसनीखेज मामला सामने आया है। मंगलवार सुबह 8:30 बजे जमीन में फेंसिंग करने की बात को लेकर रामलाल धुरु का उनके सामने रहने वाले गजानंद यादव के साथ विवाद हो गया। इस पर गजानंद के परिवार सहित करीब 15 लोगों ने रामलाल के परिवार पर गैती और सब्बल से हमला बोल दिया। मामले में मुख्य आरोपी गजानंद यादव और कुछ लोगों ने पुलिस के सामने समर्पण कर दिया है।   हमला करने वालों ने रामलाल गुरु(55) और तोमन बाई(50) को घर के सामने ही मार डाला, वहीं उनके बेटे विनोद(35) और अनिकेत(20) को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा और जब वे एक साइकिल की दुकान में छिपने की कोशिश करने लगे तो उनकी हत्या कर दी। इस दौरान परिवार के दो लोग अपनी जान बचाकर भागे जिसमें विनोद की पत्नी और उसका दो साल का बच्चा और मनोज शामिल हैं।   हत्या जमीन विवाद की वजह से हुई है। रामलाल धुरु की जमीन पर गजानंद यादव ने कब्जा करके मकान बना लिया था। वहीं एक और जमीन पर भी उसने कब्जा कर रखा था। कोर्ट ने इस मामले में रामलाल धुरु के पक्ष में फैसला सुनाया था। जिसके बाद से उनका परिवार अपनी जमीन पर तार फेंसिंग करवा था। इस मामले में आरोपी गजानंद यादव को जमीन पर कब्जा कर बनाया गया मकान खाली करना था।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 June 2016

Video

Page Views

  • Last day : 2842
  • Last 7 days : 18353
  • Last 30 days : 71082
Advertisement
Advertisement
Advertisement
All Rights Reserved ©2017 MadhyaBharat News.