Since: 23-09-2009

Latest News :
पाकिस्तान में छुपा बैठा है डॉन,चार पते मिले.   नर्मदा यात्रा : रिहर्सल में पत्नी अमृता के साथ रोज पैदल चल रहे हैं दिग्विजय.   सेना ने आतंकी आदिल को जिंदा दबोचा.   शाह ने कहा- दंगों के वक्त मेरे साथ विधानसभा में थी माया.   प्रद्युम्न की हत्या के बाद खुला रेयान स्कूल.   आतंकवाद से साथ मिलकर लड़ेंगे भारत-जापान:शिंजो आबे.   मुख्यमंत्री चौहान ने किया सदगुरू की नदी अभियान रैली का स्वागत.   तरुण सागर की कड़वे वचन का विमोचन.   भाजपा किसान मोर्चा ने मांगी राहत.   हनीप्रीत को लेकर हरियाणा पुलिस की एडवाइजरी, मप्र पुलिस सक्रिय.   सीएम हाउस के नाम से धमकाने वाले को नोटिस.   मध्यप्रदेश के सभी गाँव और शहर खुले में शौच से मुक्त किये जाएंगे.   बस्तर को अलग राज्य बनाने की मांग.   मजदूरों को छत्तीसगढ़ में पांच रूपए में मिलेगा टिफिन.   अम्बुजा सीमेंट में पिस गए दो मजदूर.   एम्बुलेंस ये ले जाती है नदी पार .   भालू के हमले से दो की मौत.   जोगी की जाति के मामले में सुनवाई फिर टली.  

नारायणपुर News


नक्सली  गिरफ्तार

छत्तीसगढ़ पुलिस ने गुरुवार को दो नक्सलियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की। मिली जानकारी के मुताबिक पुलिस को नारायणपुर जिले के बागझर के जंगलों में नक्सलियों की संदिग्ध गतिविधियों की सूचना मिली थी। इसी सूचना के आधार पर पुलिस टीम ने इलाके को घेरकर सर्चिंग अभियान शुरू किया, जिसमें दो नक्सलियों को गिरफ्तार करने में सफलता मिली। पुलिस ने बताया कि दोनों नक्सलियों पर छेरीबेड़ा में बम लगाने का आरोप है। पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 July 2017

दस नक्सली मारे गए

नारायणपुर के आकाबेड़ा पुलिस कैंप पर सोमवार देर रात नक्सलियों ने हमला कर दिया। दोनों ओर से दो घंटे चली गोलीबारी में पुलिस ने 10 नक्सलियों के मारे जाने की आशंका जताई है। घटना की पुष्टि एसपी अभिषेक मीणा ने की है। जानकारी के मुताबिक नक्सलियों ने पुलिस कैंप पर अचानक फायरिंग कर दी, इस पर पुलिस जवानों ने भी जवाबी फायरिंग की। रात में लगातार करीब दो घंटे तक गोलीबारी चलती रही। इस दौरान कमजोर पड़ रहे नक्सली भाग निकले। नक्सलियों के भागने के बाद जब पुलिस ने सर्चिंग की तो वहां खून के धब्बे मिले और हथियार बरामद किए गए हैं। आकाबेड़ा में जिला स्तरीय जन समस्या निवारण शिविर का आयोजन किया जाना है। इसी को लेकर नक्सली विरोध कर रहे थे। उन्होंने आस-पास के गांव में बैठके कर ग्रामीणों को चेताया था कि जो भी शिविर में जाएगा उन्हें जन अदालत में सजा दी जाएगी। उन्होंने यह चेतावनी भी जारी कि थी कि ग्रामीण शिविर से दूरी बनाए रखें। दरअसल यह नक्सलियों का आधार क्षेत्र माना जाता है, जो अबूझमाड़ के बीच में स्थित है। यहां तीन महीने पहले ही पुलिस ने अपना कैंप लगाकर डीआरजी फोर्स को तैनात किया था। कैंप पर हमले से पहले नक्सलियों ने यहां रेकी भी की थी। पुलिस के अनुसार करीब 40-50 की संख्या में थे। हमले के दौरान उन्होंने हाई एक्सप्लोसिव बम और मोर्टार भी दागे। इसके बाद जवानों ने जवाब में ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी तब नक्सली भाग खड़े हुए। हमले के बाद पुलिस सर्चिंग में नक्सलियों द्वारा उपयोग किए गए हथियार मिले हैं, वहीं पूरे इलाके में खून के धब्बे मिले है। पुलिस ने आशंका जताई है कि जवाबी फायरिंग में करीब 10 नक्सली मारे गए हैं, जिनके शवों को उनके साथी अपने साथ लेकर फरार हो गए। इसके पहले भी कस्तूरमेटा में होने वाले जनसमस्या निवारण शिविर का नक्सली विरोध कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने शिविर के शुरू होने के कुछ समय पहले ही यहां विस्फोट कर दिया। घटना के बाद आकाबेड़ा और आस-पास के गांवों में दहशत का माहौल है। अब अधिकारी-कर्मचारी और ग्रामीण भी जनसमस्या निवारण शिविर में जाने को लेकर डरे हुए है। उधर पुलिस का कहना है कि हम सुरक्षा व्यवस्था उपलब्ध कराएंगे और शिविर होकर रहेगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 February 2017

 हाथियों ने ली दो लोगों की जान

नारायणपुर थाना क्षेत्र में दो अलग-अलग घटनाओं में हाथियों ने दो लोगों की कुचलकर जान ले ली। यहां से 3 किमी दूर महुआ टोली में 20-25 हाथियों के दल ने महिला कुंवारी देवी(45) पति जगदेव यादव की कुचलकर जान ले ली। घटना के बाद से ग्रामीण दहशत में हैं। वहीं कोटियां गांव में फसल काटने के लिए मजदूर खोज कर वापस लौट रहे थियोफिल लकड़ा को हाथी ने कुचल दिया। उसके साथ मौजूद एक व्यक्ति ने पु‍ल के नीचे छिपकर अपनी जान बचाई। गौरतलब है कि इलाके में पिछले कुछ दिनों से हाथियों का आतंक बढ़ता जा रहा है, जिससे इलाके के ग्रामीण दहशत में है। घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस और वन विभाग का दल मौके पर पहुंचा।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 November 2016

haevan pati

  पत्नी को सलाखों से दागा, जुबान काटी, कमर भी तोड़ी   आदर्श विधायक ग्राम बेनूर की रहने वाली महिला सखावती अपने पति के हैवानियत की शिकार हो गई है। मायके जाने के विवाद में आरोपी पति ने गर्म लोहे से जलाने के बाद उसकी जुबान तक काट दी  है। इतने में ही उसका गुस्सा शांत नहीं हुआ और उसने पत्नी के कमर की हड्डी तोड़ डाली। इस मामले में अभी तक पुलिस में रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई है।   महिला एवं बाल विकास विभाग को सूचना देकर प्रशासन की टीम के साथ महिला के घर में दबिश दी गई। बेनूर थाना से कुछ दूरी पर मुख्य सड़क से लगे पीड़ित महिला के झोपड़ीनुमा घर में प्रवेश करने पर महिला अचेत अवस्था में जमीन पर पड़ी मिली। उसके पास रखे भोजन में कीड़े तक पड़ गए थे। उसके पूरे कपड़े मूत्र से गीले पड़े थे। महिला के दयनीय हालत को देखते बेनूर पुलिस की मदद से उसे वाहन में बिठाकर जिला अस्पताल में भर्ती किया गया।   पीड़ित महिला की माता बुधमती सलाम ने बताया कि उनकी बेटी की शादी बड़ेडोंगर थाना क्षेत्र के भंडारसिवनी गांव में की गई थी। उसका पति दयाराम विश्वकर्मा आए दिन उनकी बेटी से मारपीट करता था। उन्होंने बताया कि परिवार में दुख होने पर उनकी बेटी बेनूर आ रही थी तभी आरोपी पति ने उसे रास्ते में रोककर मारपीट करते घर ले गया और गर्म लोहे से पूरे शरीर को दाग दिया।   इसके बाद उनकी बेटी की जुबान काट दी। उन्होंने बताया कि कमर की हड्डी तक टूट गई है। परिवार का कहना है कि गरीबी के चलते वे अपनी बेटी का इलाज कराने में असमर्थ हैं इसलिए उसे अस्पताल में भर्ती नहीं कराया था।   नारायणपुर की महिला संरक्षण अधिकारी किरण नैलवाल  ने बताया पीड़ित महिला के मेडिकल रिपोर्ट का इंतजार है। इसके बाद आरोपी पति के खिलाफ एफआईआर कराई जाएगी। पीड़ित महिला के परिजनों का बयान लिया जा रहा है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 August 2016

Video

Page Views

  • Last day : 2842
  • Last 7 days : 18353
  • Last 30 days : 71082
Advertisement
Advertisement
Advertisement
All Rights Reserved ©2017 MadhyaBharat News.