Since: 23-09-2009

  Latest News :
घुसपैठियों को देश से करेंगे बेदखल.   आतंकी हाफिज सईद को जेल भेजा गया.   SC का बागी विधायकों पर फैसला .   अनुसुइया उइके छत्‍तीसगढ़ की राज्‍यपाल.   इमारत ढहने से 12 लोगों की मौत .   चंद्रयान-2 की उलटी गिनती शुरू .   दांव पर लगा मेडिकल छत्रों का भविष्य.   नहर में नहाने गए किशोर की मौत .   पिछली सरकार में हुए घोटाले, होगी जांच .   पिता पुत्री की गोली मारकर हत्या .   युवकों की पिटाई वीडियो हुआ वायरल .   अतिथि शिक्षकों का कांग्रेस भवन में धरना.   वाहन चेकिंग में मिला 3 क़्वींटल गांजा.   होटलों में जिस्मफरोशी का धंधा.   पूर्व MLA की नक्सलियों ने की हत्या.   अविश्वास प्रस्ताव पर भाजपा में सहमति नहीं.   दो गांजा तस्कर पकडे गए .   आरक्षक का शव मिलने से सनसनी .  

मध्यप्रदेश की खबरें

 SAGAR MEDICAL COLLAGE

प्रबंधन पर मनमानी करने का आरोप    जबलपुर सुख सागर मेडिकल कॉलेज में प्रबंधन की मनमानी के चलते छत्रों को कॉलेज के अंदर नहीं घुसने दिया जा रहा  प्रबंधन ने   गेट पर नोटिस लगाकर परिसर में विद्यार्थियों को  घुसने से मना कर दिया  छात्रों का आरोप है की कॉलेज में मेडिकल कौंसिल ऑफ़ इंडिया के नियमो का पालन नहीं किया जा रहा   कॉलेज में ना तो प्रोफेसर है ना ही क्लेरिकल  स्टाफ है   जबलपुर में सुख सागर मेडिकल कॉलेज प्रबंधक और विद्यार्थियों के बीच टकरार  देखने को मिली प्रबंधन ने छात्रों को  कॉलेज परिसर में घुसने से मना कर दिया है जिसको लेकर कॉलेज में पढ़ने वाले सैकड़ो विद्यार्थियों ने कॉलेज के खिलाफ  मोर्चा खोल दिया विद्यार्थियों का आरोप है कि कॉलेज एमसीआई के नियमो का पालन नही कर रहा है  यहां न तो पढ़ाने वाले प्रोफेसर है न क्लेरिकल स्टाफ कि कोई टीम है कॉलेज प्रबंधन विद्यार्थियों को धमकी दे रहा है कि जितना स्टाफ है उसी से तो पढ़ना पड़ेगा  वही दूसरी प्रबंधन का कहना है की छात्रों द्वारा फीस नहीं भरी गई है और स्टाफ से बदतमीजी की जा रही है   विद्यार्थियों ने आरोप लगे है की  कॉलेज प्रबंधन 2 से 3 लाख रुपये प्रति सेमेस्ट फीस वसूल रहा है , लेकिन सुविधा को नाम पर कोई व्यवस्थाएं नही दी जा रही विद्यार्थी  रोज कॉलेज आते है  , लेकिन घण्टों गेट पर इंतजार करना पडता है  विद्यार्थियों ने कॉलेज की अव्यवस्थाओं को लेकर डीएमई से शिकायत की है   डीएमई ने  शीघ्र कार्यवाही का आश्वासन दिया है         

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

MAUT

नहीं आता था तैरना,डूबने से हुआ हादसा    नहर में नहाने गए  एक किशोर के डूबने से मौत हो गई  3 घंटे की मशक्कत के बाद मृतक का शव बरामद हो पाया  पुलिस ने मर्ग कायम कर जाँच शुरू कर दी है   जबलपुर में  ग्राम सोनपुर के पास स्थित एक  नहर में   किशोर की डूबने से मौत हो गई    मृतक किशोर का नाम नवीन कामले बताया जा रहा है जो कि अपने दो दोस्तों के साथ नहर में नहाने गया था   तीनों किशोर जब नहा रहे थे तभी अचानक ही नवीन गहरे पानी में चला गया और देखते ही देखते डूब गया  नवीन के डूबने की खबर  गांव के लोगों ने तुरंत ही खमरिया थाना पुलिस को  दी  जिसके बाद  होमगार्ड के गोताखोरों को बुलाया गया    करीब 3 घंटे की मशक्कत के बाद नवीन का शव मिल पाया   बताया जा रहा है कि तीनों ही किशोर से तैरते नहीं बनता था, बावजूद इसके वह नहर में नहाने गए थे  नवीन के पिता ने बताया कि वह आईटीआई के साथ साथ 12वीं की भी तैयारी कर रहा था   मृतक नवीन अपने मां बाप का इकलौता बेटा था   फिलहाल पुलिस ने मर्ग कायम कर घटना की जांच शुरू कर दी है         

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

  vidhansabha hangama

बिजली और स्मार्ट फोन वितरण पर हंगामा   मध्यप्रदेश विधानसभा सत्र  के दौरान  बिजली बिल और स्मार्ट फोन वितरण के मुद्दे को लेकर जमकर हंगामा हुआ   विपक्ष ने आरोप लगते हुए कहा की कमलनाथ सरकार में  बिजली आधी हो गई है और बिल बढ़ा दिया गया है   जोरदार हंगामे के बीच प्रश्नकाल में ही  सदन की कार्यवाही दो बार स्थगित करनी पड़ी  सत्ता पक्ष का आरोप है की प्रश्नकाल में  विपक्ष के घोटालों और कारनामों की पोल खुलती है इसलिए प्रश्नकाल चलने नहीं दिया जाता   मध्यप्रदेश विधानसभा सत्र में बिजली बिल के मुद्दे को लेकर सदन में जमकर हंगामा हुआ   विपक्ष ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा की प्रदेश में  बिजली आधी कर दी गई है और  बिल बढ़ा दिया गया है   विपक्ष ने जोरदार हंगामा करते हुए सदन के बाहर बिजली बिल आधा करने को लेकर नारेबाजी की  नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कहा की हमारी सरकार में बिजली में इतनी कटौती नहीं होती थी  सदन में आग्रह किया गया की इस पर चर्चा हो लेकिन बिजली के मुद्दे को लेकर चर्चा नहीं की जा रही है   स्मार्ट फोन वितरण को लेकर भार्गव ने कहा की सरकार छत्रों को दिया जा रहा स्मार्ट फोन बंद कर रही है   स्मार्ट फोन के मुद्दे पर सदन में सत्ता और विपक्ष के बीच तीखी नोकझोंक भी हुई  जिसके बाद विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति को कार्यवाही स्थगित करनी पड़ी  पूर्व जनसम्पर्क मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा की मंत्री जी बोल रहे बिजली को लेकर वो ठोस कदम उठाएंगे लेकिन कदम इतने ठोस हो गए हैं की  वो उठ ही नहीं रहे  सरकार हर क्षेत्र में असफल हुई है   बिजली के मुद्दे को लेकर ऊर्जा मंत्री प्रिय व्रत सिंह ने कहा की सदन में बिजली के मुद्दे को लेकर पांच प्रश्न रखे गए थे लेकिन विपक्ष ने हंगामा कर चर्चा नहीं होने दी  नेता प्रतिपक्ष अपनी पुरानी सरकार को बचाना चाहते है और सरकार के पास तथ्य है इसलिए पटल पर चर्चा नहीं करने दे रहे  प्रियव्रत सिंह ने कहा की इंद्रा आवास योजना के तहत गरीबों को  100 यूनिट बिजली स्तेमाल करने पर  100 रुपये बिल देना होगा  सरकार नहीं चाहती की इसका फायदा उसको मिले जो ज्यादा यूनिट उपयोग करते है और बिल भरने में सक्षम है  पिछली सरकार में बहोत सारे घोटाले हुए है  जिनका पर्दाफास किया जायेगा  उधर गोपाल भार्गव ने कहा यदि घोटाले हुए हैं तो सरकार जाँच कराये और दोषियों को सजा दे  , खाली गाल बजाने से कुछ नहीं होगा      

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 HATYA KAND

अपराधियों को नहीं  पुलिस का डर   प्रदेश सरकार के मंत्री भले ही आंकड़े प्रस्तुत कर  अपराधों पर कमी आने का दवा कर रहे हो लेकिन  प्रदेश में अपराधी कितने बेखौफ है इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है की  देर रात  अज्ञात लोगों ने फायरिंग कर पिता पुत्री की हत्या कर दी  प्रदेश में हो रही हत्याओं से कमलनाथ सरकार के ऊपर अब सवालिया निशान  खड़ा हो गया है   अवैध बसूली जुआ सट्टा शराब के अवैध परिवहन को पकड़कर  पुलिस अपनी पीठ थपथपाने में लगी है  वही अपराधी बेखौफ होकर कारनामो को अंजाम दे रहे है   पूरे  प्रदेश में आये दिन लूट हत्या डकैती बलात्कार जैसे अपराध घटित हो रहे है  अब तो यही सवाल उठता है की  क्या अपराधियो में पुलिस का डर नही रहा   घटना सागर के तीली गाँव की है जहाँ  देर रात  अज्ञात लोगों ने  पिता पुत्री पर फायरिंग कर हत्या कर दी  बताया जा रहा है की मृतक  बृजेश चौरसिया अपनी पत्नी और पुत्री के साथ कार में कहीं जा रहे थे तभी अज्ञात लोगों द्वारा फायरिंग की गई  पुत्री ने घटनास्थल पर ही दम तोड़ दिया जबकि पत्नी बच गई  संदिग्ध मृतक की पत्नी का कहना है घटना के वक़्त वह  सो रही थी   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 CHORI

बकरा चुराने गए थे युवक      बकरा चुराने आये तीन युवकों की पिटाई का वीडियो जमकर वायरल हो रहा है  वीडियो में कुछ लोग तीन युवकों की जमकर पिटाई करते नजर आ रहे हैं  गुस्साए लोगों ने युवकों की बाइक को भी आग के हवाले कर दिया   मध्य प्रदेश के नीमच में बकरा चुराने पहुंचे युवकों की पिटाई का वीडियो जमकर  वायरल हो रहा है   वीडियो में कुछ लोग तीन युवकों की  पिटाई करते नजर आ रहे हैं  जानकारी के मुताबिक दो युवक एक बाइक पर बकरा लेकर जा रहे थे   लेकिन भादवा माता मंदिर के पास उनकी बाइक  फिसल गई  हादसे के बाद मौके पर पहुंचे लोग युवकों को जैसे ही उठाने पहुंचे तो उन्होंने मौके से भागने की कोशिश की   ये देख ग्रामीणों को शक हुआ और उन्होंने युवकों को रोककर पूछताछ शुरू कर दी   इनके साथ बकरा होने की वजह से ग्रामीणों को चोरी की शंका हुई  इसी दौरान कुछ लोगों ने  इनकी पिटाई शुरू कर दी   गुस्साए लोगों ने  इन युवकों की बाइक को भी आग के हवाले कर दिय  मामला बढ़ता देख पुलिस मौके पर पहुंचीं और स्थिति को काबू में किया     

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 ATITHI SHIKSHAK

नियमित करने की कर रहे मांग         संयुक्त अतिथि शिक्षक संघ ने नियमितीकरण की मांग को लेकर प्रदेश  कांग्रेस कार्यालय में धरना देकर प्रदर्शन किया  अतिथि शिक्षकों का कहना है की कांग्रेस ने वचनपत्र में  वादा किया था की उनकी सरकार बनते ही उनको तीन माह के अंदर  नियमित किया जायेगा , लेकिन सरकार बने 7 माह हो चुके है अभी तक कुछ नहीं किया गया  ऐसे में अतिथि शिक्षक खुद को ठगा महसूस कर रहे हैं   अतिथि शिक्षक संघ ने नियमित करने की मांग को लेकर कांग्रेस कार्यालय में धरना प्रदर्शन किया और जमकर नारेबाजी की  अतिथि शिक्षकों का आरोप है की ना तो उनकी मांग को कोई अधिकारी सुन रहे ना ही प्रदेश के मंत्री  अतिथि शिक्षकों को नियमितीकरण को लेकर इधर से उधर भटकाया जा रहा है  ऐसे में शिक्षक खुद को ठगा महसूस कर रहे हैं  प्रदर्शनकारी शिक्षकों का कहना है की कांग्रेस अपने वादे से मुखर रही है  कांग्रेस ने वचन पत्र  में कहा था की सरकार बनते ही उनको तीन माह के अंदर नियमित किया जायेगा लेकिन उनकी कोई सुनवाई नहीं हो रही   कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने कहा की कांग्रेस ने जो वचन पत्र में कहा है वह पूरा किया जायेगा  लोकसभा चुनाव और आचार संहिता के चलते सरकार को  कार्य करने का मौका नहीं मिला है  अतिथि शिक्षकों के बारे में विचार किया जा रहा है  एक समिति बनाई जा रही है जो की नियमितीकरण को लेकर विचार करेगी                            

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 hatya

गुस्साए परिजनों ने किया हंगामा   छतरपुर के बड़ामलेहरा थाना क्षेत्र में एक युवक का संदिग्ध हालत में शव मिलने का मामला सामने आया है मृतक के परिजनों ने पड़ोसियों पर हत्या का आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा किया जिसकी सूचना मिलते ही बड़ामलेहरा पुलिस और एस डी एम ने मौके पर पहुंचकर गुस्साए परिजनों को कार्रवाई का आश्वाशन देकर शांत कराया छतरपुर बड़ामलेहरा थाना क्षेत्र के दरगुंवा गांव में संदिग्ध हालत मे एक युवक का बंद कमरे में शव मिलने से सनसनी फैल गई दरअसल मृतक दमोदर प्रजापति रात मे अपने कमरे मे सोया था जब सुबह वह जगा नही तो परिवार के लोगो मे मातम छा गया और गुस्साऐ परिजनों ने पड़ोसियों पर हत्या का आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा किया परिजनों का आरोप है कि पड़ोस मे रहने वाले उनके परिजनो ने ही जमीनी विवाद को लेकर दामोदर की गला दबा कर हत्या की है वही हंगामें की सूचना मिलते ही बड़ामलेहरा पुलिस और एस डी एम ने मौके पर पहुंचकर गुस्साऐ परिजनों को समझाइश देकर शांत कराया और शव को अपने कब्ज में लेकर पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आगे की कारवाई किए जाने का आश्वासन दिया है       

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 JEETU PATWARI

टूटी फूटी अंग्रेजी में रखी बात      निजी विश्वविद्यालय के एक कार्यक्रम में पहुंचे खेल एवं युवा कल्याण मंत्री जीतू पटवारी उस समय असहज महसूस करने लगे जब उन्हें अंग्रेजी में भाषण देना पड़ा  जीतू पटवारी ने कहा की उनको अंग्रेजी का ज्यादा ज्ञान नहीं है  इस दौरान जीतू पटवारी नर्वस भी  दिखाई दिए   वैसे तो नेता अपने भाषण देने के कारण ही ज्यादातर चर्चा में रहते है  लेकिन अगर भाषण अंग्रेजी में देना पड़े तो ये नेता के लिए कभी कभी मुसीबत बन जाता है  ऐसा ही एक वाक़्या खेल एवं युवा कल्याण  मंत्री जीतू पटवारी के साथ हुआ   निज़ी विश्वविद्यालय विनियामक आयोग के कार्यक्रम में पहुंचे खेल  मंत्री जीतू पटवारी को जब भाषण देने के लिए स्टेज पर बुलाया गया तो वो अंग्रेजी में भाषण देने को लेकर नर्वस हो गए  विदेशी भाषा ने जीतू पटवारी को नर्वस और असहज कर दिया  जीतू पटवारी ने टूटी फूटी इंग्लिश में अपनी बात लोगों के सामने रखी और कहा की मैं बैठे बैठे सोच रहा था की मैं लोगों से कम्यूनिकेट कैसे करूंगा  इस दौरान मंच पर बैठे अतिथियों  ने भी असहज महसूस किया  मंत्री जी की परेशानी जान सामने बैठे लोग भी मुस्कुराने लगे          

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 Shivraj Singh

बेटी बचाओ अभियान में शामिल हुए धर्मगुरु   नाबालिग के साथ दुष्कर्म के बाद हत्या के  आरोपियों को सजा ना मिलने से पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने धरना प्रदर्शन किया  शिवराज ने कहा की आरोपियों के विरुद्ध प्रशासन ने अब तक कोई कार्यवाई नहीं की    बेटी बचाओ अभियान के तहत  पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मनवाभान टेकरी में नाबालिग के साथ दुष्कर्म मामले में कार्यवाई ना होने से धरना प्रदर्शन किया  शिवराज ने कहा की अभी तक कार्यवाई नहीं की गई ये दुःख की बात है  अब बेटी के माता पिता भी बेटी बचाओ अभियान में शामिल होंगे   शिवराज ने कहा की बेटियां अपने को अकेला न समझे समाज उनके साथ है  शिवराज ने कहा की मोहल्ला समिति बनाई जा रही है ताकि निर्भय होकर बेटी अपनी बात कह सके  समिति के द्वारा सन्दिग्ध व्यक्तियों  पर नजर रखी जाएगी  नशे का कारोबार अगर कहीं हो रहा है उसकी जानकारी मिल सके  घटना ना हो इसके लिए समाज  को जागरूक रहने की आवश्यकता है  अभियान के तहत बेटियों को ट्रेनिंग दी जाएगी जिससे वो अपनी सुरक्षा कर सकेंगी  धरना प्रदर्शन में कार्यकर्ताओं के साथ कई बड़े धर्म गुरु भी मौजूद रहे         

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 kamalnath sarkar

दबंगो से कब्ज़ा हटवाना चाहता था दिव्यांग    कमलनाथ सरकार के कुछ अफसर सरकार की किरकिरी करवाने से बाज नहीं आ रहे हैं   छतरपुर में जनसुनवाई के दौरान समस्या सुनाने आये एक दिव्यांग  किसान को कलेक्टर ने न्याय देने के बजाय पुलिस के हवाले करते हुए पागल खाने भेज दिया   दिव्यांग का कसूर बस इतना था की वह अपनी जमीन  दबंगो के  कब्जे से हटाने की मांग कर रहा था  पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सरकार पर निशाना साधा और घटना की निंदा की   कमलनाथ सरकार मे सरकारी मशीनरी बेलगाम हो गई है   ऐसा ही एक मामला चर्चा विषय  बना हुआ है   छतरपुर मे जनसुनवाई मे कलेक्टर मोहित बुंदास को अपनी समस्या सुनाने गये ,दिव्यांग किसान शंकर पटेल  की समस्या सुनने पर न्याय दिलाने  की जगह उसको पुलिस के हवाले करते हुये , ग्वालियर मानसिक रोगी अस्पताल भेजने का फरमान कलेक्टर ने जारी कर दिया  उसका कसूर बस इतना था की वह   कलेक्टर से चाहता था कि वे  उसकी जमीन पर से दबंगों का  कब्जा हटवा दें  कब्जे को हटाने का आदेश  कई  बार राजनगर तहसील के नायाब तहसीलदार ने दिया था  लेकिन उसकी कोई सुनवाई नही हुई ,तो वह कलेक्टर की जनसुनवाई मे आवेदन लेकर पहुँच गया   आवेदन पढ़ने के बाद ही कलेक्टर ने  समस्या हल करने की जगह किसान को  गिरफ्तार कर उसे ग्वालियर मानसिक चिकित्सक के पास  भेज दिया   कलेक्टर के फरमान जारी होते ,सरकारी मशीनरी एक्शन  मे आ गई और उसके परिवार को बिना बताये ,उसे जबरदस्ती पुलिस की गाडी बैठाकर  ग्वालियर रवाना कर दिया  दिव्यांग का  परिवार कलेक्टर के  इस आदेश के खिलाफ शंकर से बात करने गुहार लगाता रहा ,लेकिन पुलिस ने एक न सुनी और उसे ग्वालियर भेज दिया   जिला अस्पताल मे तैनात सिविल सर्जन यह दावा  करते रहे ,कि दिव्यांग किसान शंकर का मानसिक संतुलन ठीक है   लेकिन फरमान था तो सिविल सर्जन भी क्या कर सकते थे  पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ने घटना की निंदा करते हुए कहा की जैसा प्रदेश का राजा होगा वैसे अधिकारी है   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 AATMDAH

सभी बच्चे दस साल से कम आयु के    मन्दसौर के भानपुरा थाना क्षेत्र के ग्राम खजुरना में ह्दय विदारक घटना में माँ ने अपने चार मासूम बच्चो के साथ कुँए मे कूदकर आत्महत्या  कर ली   बताया जा महिला ने पारिवारिक विवाद के बाद यह आत्मघाती कदम उठाया  खजुरना की रहने वाली बतूल बाई बंजारा ने पारिवारिक विवाद के चलते अपने 8 और 3 साल की बेटियों  पिंकी और कनिका और  6 साल के लक्की 5 माह के बेटे  संजय के साथ कुए मे छलांग लगाकर आत्महत्या कर ली  पुलिस के अनुसार महिला का पति तमिलनाडु में रहकर कंबल बेचने का काम करता है   महिला अकेली अपने परिवार के साथ गांव में  ही रहती है   बीती रात महिला का पारिवारिक विवाद हुआ जिसके बाद महिला में अपने चार मासूम बच्चो के साथ कुए में छलांग लगा दी   सुबह जब परिजनों ने महिला की तलाश शुरू की तब घटना का पता चला  भानपुरा पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से पांचो शवो को बाहर निकालकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया   सभी मृतक बच्चों  की उम्र दस साल से भी कम है   एक साथ पांच मौत के बाद गांव में मातम पसरा है   वही इस ह्दय विदारक घटना और महिला के मासूम बच्चो सहित आत्महत्या जैसा गंभीर कदम उठाने के पीछे की वजह पुलिस तलाश रही है    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 vidhaansabha

विपक्ष ने की गृहमंत्री के इस्तीफे  की मांग   मध्यप्रदेश विधानसभा में  विपक्ष ने कानून व्यवस्था को लेकर जोरदार हंगामा किया  विपक्ष ने प्रदेश में बिगड़ रही कानून व्यवस्था को लेकर सदन में चर्चा की मांग की  पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा की प्रदेश में बच्चों की हत्याएं की जा रही हैं और सरकार तबादले में व्यस्त है   हंगामे के बीच विधानसभा अध्यक्ष एन पी प्रजापति को दो बार सदन की कार्यवाही स्थगित करनी पड़ी    विधानसभा में सदन की कार्यवाही शुरू होते ही विपक्ष ने कानून व्यवस्था को लेकर जमकर हंगाम किया  जोरदार हंगामे की बीच विधानसभा सभा अध्यक्ष एन पी प्रजापति को दो बार कार्यवाही स्थगित करनी पडी   पूर्व मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा की प्रदेश में सरकार नाम की कोई चीज नहीं बची है  कानून व्यवस्था ध्वस्त हो गई है   चित्रकूट , उज्जैन , भोपाल की घटनाओ का जिक्र करते हुए शिवराज ने कहा की मासूम बच्चों की हत्याएं हो रही और सरकार कुछ नहीं कर पा रही   नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कमलनाथ सरकार पर निशाना साधते हुए कहा की  सरकार तबादला उद्योग चला रही है उधर प्रदेश में कानून व्यवस्था बिगड़ती जा रही   भार्गव ने कहा की अगर कुत्तों का ट्रांसफर सरकार नहीं करती तो कुत्तों के सूघने की क्षमता से अपराधी का जल्द पता लगाया जा सकता था  प्रदेश की स्थित सोचनीय और दयनीय है  जब तक बच्चा स्कूल से वापस नहीं आ जाता तब तक परिजन परेशान  रहते है  गोपाल भार्गव ने गृह मंत्री बाला बच्चन से कानून व्यवस्था बिगड़ने को लेकर  स्तीफे की मांग  की   खाद्य मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर ने शिवराज सिंह चौहान पर आरोप लगाते हुए कहा की शिवराज और भाजपा ने सदन का समय बर्बाद किया है  भाजपा के द्वारा सदन का कीमती  समय बर्बाद करने के विरोध में तोमर ने गांधी प्रतिमा के सामने मौन व्रत  रखा   तोमर ने कहा की प्रश्न काल में जनहित के  मुद्दे उठाये जाने थे जिसको  भाजपा ने सदन में हंगामा कर नहीं होने दिया  हालाँकि प्रधुम्न सिंह तोमर ने खुद मौन व्रत रख कर जनता जनार्दन के लिए उपयोग में आने वाले समय को बर्बाद किया    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 CHUDIYAN

चूड़ियाँ भेजकर जताया विरोध    एमपी  में बच्चों से संबधित बढते अपराध थमने का नाम नही ले रहे है  राजधानी भोपाल में बच्चों पर बढ रहे अपराधों  के खिलाफ सद्भावना अधिकार मंच ने मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ और गृहमंत्री बाला बच्चन को पत्र के साथ चूड़ियां  भेजकर मुख्य मंत्री और गृह मंत्री के इस्तीफे कि मांग की  सद्भावना अधिकार मंच ने हेड पोस्ट ऑफ़िस पहुंचकर मुख्य मंत्री कमलनाथ और गृह मंत्री बाला बच्चन को चूड़ियाँ  और पत्र भेजकर इस्तीफे कि मांग की है साथ ही हेड पोस्ट ऑफ़िस के बाहर कांग्रेस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की इस दौरान सदभावना अधिकार मंच के कई कार्यकर्ता मौजूद रहे प्रदेश सरकार एक ओर बच्चों कि सुरक्षा का दावा करती है  तो वहीँ  दूसरी ओर प्रदेश में आए दिन बच्चों से संबधित अपराध के मामले देखने को मिलते हैं हाल के कुछ दिनों में इनमे तेजी से वृद्धि हुई है 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 DOCTOR KA KAMAAL

पेट से निकाले 33 नुकीले आइटम    छतरपुर में एक डाक्टर का कमाल देखिये मेडिकल साईंस मे ऐसा काम ही होता है किसी मरीज का ऑपरेशन हो और उसके पेट से  एक एक कर प्लास्टिक का पेन, ब्लेड  सहित 33 आईटम निकाले जाएं  प्राइवेट अस्पताल चलाने वाले   डॉक्टर एम पी एन खरे ने ऐसा ही एक ऑपरेशन कर कमाल कर दिया छतरपुर के ईशानगर क्षेत्र के रहने वाला एक युवक 30 वर्षीय युवक  योगेश दो दिन पूर्व पेट दर्द की शिकायत लेकर अस्पताल आया था  जिसका डॉक्टर एम पी एन खरे ने  ऐक्सरे करवाया   एक्सरे में  युवक के  पेट मे नुकीली  चीज होना पाया  जिसे निकलने के  लिए डॉक्टर ने उसका ऑपरेशन किया ऑपरेशन पूरे दो घंटे तक चला और इस दौरान उसके पेट से एक एक कर  डॉकटर ने 33 आइटम निकाले वही मरीज की मां ने बताया कि योगेश कुछ भी चीज उठाकर खा लेता था जब पेट मे यह सब चीजे भारी हुई तो उसके पेट मे तकलीफ बढ गई  जिसके लिए उसका ऑपरेशन  करना पड़ा फिलहाल ऑपरेशन के बाद योगेश की हालत ठीक है  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 SUBHAS  CHANDRA

घर के सामन की कर रहे हैं मांग    मध्यप्रदेश की सबसे बड़ी  नेताजी सुभाष चन्द्र बोस  केंद्रीय कारागार  में सैकड़ों कैदियों ने घर से निजी सामान लाने को लेकर अनशन कर दिया  कैदियों  की मांग है की दूसरे  जेल की तरह इस जेल में भी घर से निजी सामान लाने की इजाजत दी जाय  हालाँकि जेल प्रशासन ने अनशन किये जाने की बात को नकार दिया है लेकिन प्रशासन ने यह भी कहा की कैदी जेल की खाद्य सामग्री नहीं ले रहे   मध्यप्रदेश की सबसे बड़ी जेल कहे जाने वाले नेताजी सुभाष चंद्र बोस केंद्रीय कारागार जबलपुर के कैदियों ने  जेल में अनशन कर रखा है  कैदियों के अनशन किये जाने के बाद से जेल प्रबंधन सकते में आ गया है  जेल में सजा काट रहे कैदी जेल प्रबंधन से दूसरे जिलों की भांति जबलपुर में भी  अपने घर से निजी सामान लाने की जिद कर रहे   कैदियों का तर्क है कि दूसरे जिलों की जेलों में निजी सामान  घर से लाने के लिए शासन ने जेलों को आदेश जारी किए है, लेकिन  केंद्रीय कारागार में शासन के आदेशों का पालन नही किया जा रहा   जेल  प्रशासन  का कहना है नवंबर 2016 में हुए  भोपाल  कांड के बाद से शासन ने जेलों में कैदियों के परिजनो से निजी सामग्री लेना बंद कर दिया है  शासन के पास से हमारे पास ऐसा कोई आदेश नही आया है जिसमे कैदियों के परिजनो से निजी सामान लेने का जिक्र किया गया हो   जेल प्रशासन कैदियों  द्वारा अनशन किये जाने की बात को नकार रहा है लेकिन वो ये भी कह रहा है कैदियों ने जेल में मिलने वाली खाद्य सामग्री को लेने से मना कर दिया है                  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 CHORI

मॉल में गार्ड देख तिजोरी छोड़ भागा चोर    माल में फर्नीचर दुकान की तिजोरी से 14 लाख  की चोरी कर  पैसे बेसमेंट में छुपाने का मामला सामने आया है  पुलिस ने cctv फुटेज के आधार पर मामला दर्ज कर चोर की तलाश शुरू कर दी है  भोपाल स्थित   कैपिटल मॉल में महिदपुर वाला फर्नीचर शोरूम से  एक चोर तिजोरी चोरी कर ले गया  बताया जा रहा है की उसमे  उसमें करीब 14 लाख रुपए थे  वारदात के बाद  तैनात गार्ड को देखकर चोर भाग गया   सुरक्षा गार्ड राजेश अहिरवार  के शोरूम मालिक और पुलिस को सूचना देने के बाद   मॉल में छह घंटे तक सर्चिंग चलती रही  आखिरकार  छह घंटे बाद बेसमेंट के कोने में छिपाकर रखी गई तिजोरी और उसमें रखे 14 लाख रुपए मिल गए  मॉल में लगे सीसीटीवी कैमरे में चोर कैद हो गया है  केस दर्ज कर पुलिस फुटेज के आधार पर चोर की तलाश कर रही है  महिदपुर वाला फर्नीचर के डायरेक्टर  ने सिक्योरिटी गार्ड को नकद इनाम देने की घोषणा की     

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 INDIAN ARMY

दिया अजीब तर्क,नहीं है अच्छे लेखक की किताब    कारगिल वॉर में  भारतीय सेना के अदम्य साहस औऱ वीरता का अध्याय पाठ्यक्रम से हटाए जाने से नाराज भाजपा ने कमलनाथ सरकार पर आरोप लगते हुए कहा की कांग्रेस ने  कारगिल का अध्याय जानबूझ कर हटाया है   सरकार का कहना है की करगिल वॉर की बुक्स ना मिलने के कारण इसे कोर्स से हटाया गया है  प्रदेश की राजनीति का स्तर किस कदर गिर गया है इसका अंदाजा इसी से अलगाया जा सकता है की सरकार ने कारगिल वार में शहीद हुए जवानो की कहानी पाठ्यक्रम से ही हटा दी   करगिल वॉर भले ही भारतीय सेना के अदम्य साहस औऱ वीरता का अध्याय है, लेकिन प्रदेश में सरकार बदलते ही इस अध्याय को भी बदल दिया गया है  गौरतलब है की  भोपाल का सबसे पुराने  एमवीएम साइंस कॉलेज में सैन्य विभाग भी है   सरकार बदलते ही उसके सिलेबस में भी बदलाव कर दिया गया है   2019-20 के सिलेबस से करगिल वॉर का अध्याय हटा दिया गया है  जबकि 2017-18 के सेशन तक ये लेसन शामिल था  इसके पीछे ऐसे तर्क दिए जा रहे हैं जो किसी के गले नहीं उतर रहे  कहा जा रहा है कि करगिल वॉर की बुक्स ना मिलने के कारण इसे कोर्स से हटाया गया है    करगिल वॉर पर अच्छे लेखकों की किताबें नहीं हैं  ये अलग बात है कि प्रॉक्सी वॉर के जरिए छात्र-छात्राओं को सारे युद्धों की जानकारी दी जा रही है   इधर भाजपा ने आरोप लगाया है की कारगिल वार अटल बिहारी के समय हुआ था इसलिए इसको हटाया गया है    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 press conference

बनेगा एडवोकेट एवं पत्रकार प्रोटेक्शन एक्ट    मुख्यमंत्री कमलनाथ को  फ्लोर मैनेजमेंट का  माहिर बताते हुए जनसम्पर्क मंत्री पी सी शर्मा ने कहा की  सभी विधायक सरकार के साथ हैं  पी सी शर्मा ने कहा की भाजपा के कुछ विधायक कह रहे हैं हमें कांग्रेस में ले लो  अधिवक्ता  और पत्रकार प्रोटेक्शन एक्ट को लेकर पी सी शर्मा ने कहा की एक्ट को लागू करने की चर्चा चल रही है  जनसमपर्क मंत्री पी सी शर्मा ने मुख्यमंत्री कमलनाथ को प्रदेश का सीएम होने के साथ साथ अध्यक्ष बताते हुए कहा की कमलनाथ  फ्लोर मैनेजमेंट में माहिर है  कर्नाटक  में कांग्रेस की सरकार रहेगी  पी सी शर्मा ने कहा की भाजपा के कुछ विधायक कमलनाथ से कह रहे हैं की हमें कांग्रेस में शामिल कर लो  7 घंटे चली विधायक दल की बैठक में सभी विधायकों ने सरकार के साथ होने की बात कही है   एडवोकेट प्रोटेक्शन एक्ट को लेकर पी सी शर्मा ने कहा की यह  एक्ट आना है मतलब आएगा  पिछले केबिनेट की मीटिंग में इसे लाया गया था लेकिन चर्चा में कुछ बिंदु छूट गए थे इसलिए एक्ट को सुचारु रूप से बनाकर लाया जायेगा  पत्रकार प्रोटेक्शन एक्ट को लेकर पी सी शर्मा ने कहा  की  अभी सीनियर सेक्रेटरी के ऑब्जर्वेशन में है  सीनियर पत्रकारों के सुझाव लेकर इसे बनाया जाएगा 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

  BUILDING BLAST

विस्फोट कर उड़ाया गया भवन    इंदौर के कल्पकामधेनु नगर में ग्रीन बेल्ट की जमीन पर बनी इमारत को विस्फोट से ढहा दिया गया है  अवैध निर्माण हटाओ मुहिम के तहत की गई इस कार्रवाई में  जेसीबी की मदद से पहले बिल्डिंग की निचली दीवार को तोड़ा गया और उसके बाद बारूद से ब्लास्ट कर इसे गिरा दिया गया  इंदौर में कुछ बड़े अधिकारीयों और नेताओं की मिलीभगत से ग्रीन बैल्ट पर बनी एक अवैध ईमारत को विस्फोट कर गिरा दिया गया  प्रशासनिक लापरवाही का सबूत इस इमारत को टूटने से बचाने के लिए इंदौर के कुछ सरकारी दलाल पिछले पांच महीने से मशक्क्त कर रहे थे  इसके पहले सोमवार को इमारत के कुछ हिस्सों को तोड़ा गया था  कल्पकामधेनु नगर में बने 29-ए प्लॉट पर करीब सालभर पहले से चार मंजिला इमारत का निर्माण किया जा रहा था   इस भवन के मालिक हरमिंदर होरा व मंजीत कौर होरा हैं   निगम के जोन नंबर सात के भवन निरीक्षक सुरेश चौहान के मुताबिक निगम द्वारा निर्माणाधीन इमारत को अवैध घोषित कर तोड़ने की कार्रवाई करीब पांच महीने से चल रही थी  इस बीच  बिल्डिंग मालिक को अब तक करीब 10 नोटिस जारी किए जा चुके थे  लेकिन उन्होंने कोई समुचित कार्यवाही नहीं की  तो  सात जुलाई को उन्हें आखिरी नोटिस दिया गया  और मंगलवार  दोपहर करीब एक बजे धमाका कर इसे गिरा दिया गया   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 kheti

कमल नाथ के राज की सबसे दुखदायी तस्वीर  बेटी बनी बैल और मां जोत रही है खेत  किसानों के साथ सरकारी छलावे का पूर्ण सत्य  मध्यप्रदेश को शर्मसार करती खबर    मुख्यमंत्री कमलनाथ जी ये आपके राज की सबसे ज्यादा दुखदायी तस्वीर है  ये तस्वीर आपके उन तमाम दावों की पोल खोलती है जो आप किसानों के लिए करते हैं  यह तस्वीर बताती है कि आपने पिछले छह महीनों में  सिवाए तबादलों के ऐसा कुछ नहीं किया ,जिसकी प्रशंसा की जाए  अगर आपकी सरकार ने कुछ किया होता तो  कम से कम एक गरीब महिला किसान को अपनी बिटिया को हल में बैल की जगह नहीं जोतना पड़ता    आँख खोल लीजिये महानुभाव मुख्यमंत्री कमलनाथ  ये तस्वीर आपके राज्य मध्यप्रदेश की है  अगर ये तस्वीर किसी और राज्य की होती तो आपकी पार्टी  अब तक पिल पड़ी होती  एमपी के किसानों ने बदलाव के लिए कांग्रेस की लंगड़ी सरकार इसलिए बनवाई थी कि शायद किसान का कुछ भला हो सके लेकिन ये क्या आपके तबादला मई सुशासन में  तो  एक महिला किसान को खेत जोतने के लिए हल में बैल की जगह अपनी बेटी को लगाना पड़ रहा है  अगर आपकी सरकार यही करने वाली थी तो आप धन्य है   फिर आपसे पहले वाले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह में कौन सी बुराई थी   खेती को लाभ  का धंधा बनाने  का दावा करने वाले  पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह को लोगों ने सत्ता से इसलिए दूर किया था कि नई सरकार कुछ नया करेगी  कमलनाथ जी जनता ने आपको नहीं चुना लेकिन आप मुख्यमंत्री बन गए   कांग्रेस ने किसानों के लिए कई किस्म के वादे किये  लेकिन क्या हुआ महाराज सत्ता में आते ही आप उस आखिरी व्यक्ति की सुध लेना ही भूल गए  लगता है आपके  आपके मंत्रियों और अफसरों के ऐसी दफ्तरों में इस तरह की जानकारियों पहुँच ही न पाती हों  तो आप जान लीजिये  मध्यप्रदेश के देवास जिले के  कन्नौद तहसील के ग्राम भिलाई में अपने परिवार का पालन-पोषण करने के लिए माँ-बेटी मिलकर खेत  जोत रही हैं   अपनी फसल में उगे अनावश्यक घास के सफाये के लिए किसान माँ को अपनी बेटी को बैल बनाना पड़ा   अगर ये कमलनाथ राज का सुशासन है तो लानत है इस पर   कन्नौद के  भिलाई के पठार पर आदिवासी एवं अन्य परिवार के करीब 25 घर हैं   इन्ही के बीच कारीबाई बारेला भी रहती हैं जो अपने पति की  मौत के बाद अपनी जमीन पर मक्का एवं मूंगफली  उगाकर परिवार का पालन पोषण कर रही हैं  सरकारी सुविधा का आलम ये है की बैल नहीं तो बच्चों को इस काम में लगाना पड़ रहा है  ख़ैर सरकार को इससे क्या भोपाल में बैठकर सरकार के प्रवक्ता योजनाओं और वादों की ऐसी जुगाली करते हैं  कि मध्यप्रदेश का सच भोपाल के मंत्रालय के गलियारों तक आते आते ही दम तोड़ देता है     

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 kamalnath dhamkee

भाजपा समर्थक पर मामला दर्ज   सीएम कमलनाथ को बम से उड़ाने की धमकी देने के मामले में कांग्रेस सोशल मीडिया के महासचिव  अमन दुबे ने  साइबर क्राइम में शिकायत दर्ज कर  FIR दर्ज कराई  भाजपा समर्थक ने सोशल मीडिया में कमलनाथ की एक पोस्ट पर अभद्र भाषा का उपयोग करते हुए बम से उड़ाने की धमकी दी थी    शोसल मीडिया फेसबुक पर  प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ को बम से उड़ाने की धमकी देने वाले व्यक्ति के खिलाफ मामला साइबर पुलिस के पास पहुँच गया है  कांग्रेस सोशल मीडिया के महासचिव ने सायबर मुख्यालय जाकर बम से उड़ाने की धमकी वाले पोस्ट को सायबर क्राइम को दिया और एफआईआर दर्ज कराई  अमन दुबे ने बताया कि “CM KAMALNATH FANS” नाम से एक ग्रूप का संचालन किया जाता है जिसमे  मुख्यमंत्री कमल नाथ से जुड़ी ख़बरों और उनकी जनहितैषी योजनाओं का प्रचार प्रसार उस ग्रूप के माध्यम से किया जाता था    10 जून को अमन दुबे ने ग्रूप में एक फ़ोटो डाली जिसने मुख्यमंत्री कमल नाथ के साथ लिखा था “मुख्यमंत्री कमलनाथ” : आपका सेवक, आपके साथ  इस पोस्ट पर  एक भाजपा समर्थक अनिल राणा ने पहले उस फ़ोटो पर अभद्र भाषा  का प्रयोग किया उसके बाद  उसने मुख्यमंत्री कमल नाथ को धमकी देने वाला कमेंट करते हुए यह कह दिया “कमलनाथ को बम से उड़ा दूँगा     

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 Minor Kidnapping Case

मासूम की घर के पास से मिली जली हुई लाश   कमलनाथ सरकार की लापरवाह पुलिस के चलते एक मासूम को अगवा कर उसकी हत्या कर दी गई  और पुलिस हाथ पर हाथ रखे बैठी रही  बच्चे का जला हुआ शव उसके घर के पास ही मिला  इससे जाहिर है भोपाल पुलिस नशे में काम करती है और जहाँ से बच्चा अगवा हुआ उसके आसपास भी जांच करना उसने उचित नहीं समझा   कमलनाथ सरकार बनाने के बाद तबादलों से परेशान पुलिसवालों ने काम करना ही बंद कर दिया है  भोपाल में एक बच्चे के अपहरण से उसकी हत्या तक के मामले को देखें तो ऐसा ही लगता है  कोलार इलाके से रविवार शाम को अगवा हुए तीन साल के वरूण की जली हुई लाश उसके घर के पास से ही मिली है   जिस मकान से बच्चे का जला हुआ शव बरामद हुआ है   वो काफी सालों से बंद था  मकान के पीछे के हिस्से का दरवाजा खोलकर अंदर शव को जलाया गया है  इस मामले में पुलिस को बड़ी लापरवाही सामने आई है  जिस दिन बच्चा अगवा हुआ था  पुलिस ने घर के सामने के मकान की ठीक से तलाशी नहीं ली थी   शुरुआती जांच में बच्चे के साथ दुष्कर्म की भी आशंका जताई जा रही है  रविवार शाम सात बजे वरूण टॉफी लेने गया था  उसके बाद से ही वो घर नहीं लौटा   इस दौरान इलाके में एक संदिग्ध कार घूमते हुए नजर आई थी   इलाके के सीसीटीवी में भी इस कार की तस्वीर आई थी  ग्राम बैरागढ चीचली में रहने वाले विपिन मीणा के तीन साल के इकलौते बेटे वरुण को बीते रविवार शाम को घर के बाहर से खेलते समय अगवा कर लिया गया था  शाम करीब सात बजे दादा नारायण मीणा से बच्चा टॉफी के लिए दस रुपए लेकर निकला था  उसके दादा वन विभाग में नाकेदार हैं  कोलार थाने में उसकी गुमशुदगी दर्ज करने के बाद एडीशनल एसपी अखिल पटेल के निर्देशन में दो सीएसपी व पांच थानों की टीम ने सर्चिंग शुरू की, लेकिन  उसका कोई सुराग नहीं मिला  पुलिस खोज बीन के नाम पर सिर्फ खाना पूर्ति करती रही  पुलिस के आला अधिकारीयों तक में इतनी समझ नहीं थी कि बच्चे को आसपास के इलाके में ही खोज लिया जाए  अपनी बेवकूफियों के कारण चर्चित भोपाल पुलिस का लापरवाह रवैया एक बार फिर सामने आया है    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 RAPE

वहशी दरिंदा पकड़ा गया    सतना के उचहेरा में एक नौ साल की मासूम के साथ एक वहशी ने दरिंदगी की  बच्ची के चीख से इस वारदात का खुलासा हुआ  पुलिस ने वहशी युवक को गिरफ्तार कर सीखचों के पीछे पहुंचा दिया है  उचेहरा के परसमनियाँ में शिक्षक द्वारा 4 वर्ष की मासूम के साथ दुराचार का मामला ठंडा भी नहीं हुआ था   कि  बीती रात एक वहसी ने फिर से मासूम से साथ दुराचार किया  उचेहरा के पोंडी गरादा गांव में बीती रात अपने घर में माँ  के पास सो रही 9 वर्षीय नाबालिग बच्ची को पास के 32 वर्षीय वहशी युवक  गोविंद उर्फ लोलिया माली  ने अपहरण कर लिया   गोविन्द मासूम को सोते में उठा कर पास के मंदिर में ले गया  और उसके साथ वहशियाना कृत्य किया   बच्ची की चीख ने सारे इलाके को दहला दिया  तड़फती बच्ची ने अपनी मां को पूरी हकीकत बताई   मालमे की शिकायत पुलिस से की गई  मामले की गम्भीरता को समझते हुए उचेहरा थाना  की पुलिस ने तत्काल आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया     

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 kamalnath

बिजली बिलों से हो रही है सरकार की किरकिरी     बिजली गुल होने के  मुद्दे लेकर कमलनाथ सरकार शुरू से ही विवादों में थी  लेकिन अब  प्रदेश में  बिजली विभाग  के मनमाना  बिल देने से उपभोक्ताओं को खासी परेशानी का सामना करना पड़  रहा है  विभाग ने गरीब उपभोक्ताओं को भी तीन से पांच  हजार तक के बिल थमा दिए है   बिजली बिल को लेकर कमलनाथ सरकार भाजपा  के निशाने पर आ चुकी है  प्रदेश की  कांग्रेस सरकार अपने वचन पत्र के अधिकतर वादों को पूरा करने का दावा कर रही है  लेकिन लोगों को इसका कितना लाभ मिल रहा है इसका अंदाजा 100 रूपए में 100 यूनिट बिजली के वादे से ही लगाया जा सकता है  जबलपुर जिले में अभी तक इस योजना का लाभ लेने वाले अधिकतर हितग्राहियों के एमपीईबी के रिकाॅर्ड में नाम भी नहीं जुड़ पाए और लोगों के घरों में अनाप-शनाप बिल पहुँच  रहे हैं   मजूदरी करने वाले परिवारों को 400-500 यूनिट के बिजली बिल पहुँच  रहे हैं   जबकि वे शासन की बिजली माफी वाली योजना के पात्र भी हैं  भाजपा कार्यकर्ताओं ने घमापुर और कांचघर क्षेत्र में रहने वाले गरीब परिवारों के बिल इकट्ठा किए जिनमें कई लोगों को 5 हजार रूपए तक के बिजली बिल दिए गए हैं   जिनके घरों का बिजली बिल 300 से 400 रूपए आता था उन्हें अब 3000 रूपए तक बिल थमा दिए गए   भाजपा  का आरोप  है कि प्रदेश सरकार जनता के साथ छलावा कर रही है  वर्तमान समय में गरीब परिवार के घर की बिजली खपत भी 200 से 300 यूनिट है ऐसे हालात में 100 यूनिट का बिल 100 रूपए तक सीमित करके उन्हें लाभ देने की घोषणा छलावा ही है  भाजपा नेताओं ने राज्यपाल के नाम पोस्टकार्ड लिखकर मांग की गई है कि जनता के साथ छल करने वाली योजना को बंद किया जाए    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 BUMRAH

बुमराह ने खुद  शेयर किया वीडियो    अब बात आज के वाइरल वीडिओ की   भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह के फैंस की कमी नहीं है  बुमराह ने एक बुजुर्ग महिला का वीडियो शेयर किया, जिसमें ये महिला उन्हीं की एक्शन में बॉलिंग के लिए अपने कमरे में दौड़ लगा रही हैं  दुनिया के नंबर एक वनडे गेंदबाज बुमराह अपनी घातक यॉर्कर गेंदों के लिए पहचाने जाते हैं  वे खेल के हर फॉर्मेट में जबर्दस्त गेंदबाजी कर रहे हैं  विश्व कप में भी बुमराह की घातक गेंदों ने कहर बरपाया और टीम इंडिया को कई मैचों में जीत दिलाई  अपनी यूनिक एक्शन के चलते बुमराह को काफी लोग पसंद करते हैं   बुमराह ने एक बुजुर्ग महिला का वीडियो शेयर किया, जिसमें ये महिला उन्हीं की एक्शन में बॉलिंग के लिए दौड़ लगा रही है  दरअसल ये वीडियो बुमराह की एक फैन ने पोस्ट किया है और बुमराह ने इसे अपने ऑफिशियल सोशल मीडिया पर शेयर किया है  ये वीडियो शांता सक्कूबाई नाम की एक ट्विटर यूजर ने शेयर किया है  वीडियो में एक बुजुर्ग महिला बुमराह के गेंदबाजी एक्शन की नकल करते हुए नजर आ रही है  बुमराह ने भी इस वीडियो को शेयर किया है, जिसमें उन्होंने लिखा है कि इससे मेरा दिन बन गया  बुमराह ने विश्व कप में 9 मैचों में 18 विकेट लिए थे  बुमराह पिछले 2-3 सालों में काफी तेजी से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उभरे हैं और उन्होंने काफी प्रभावी प्रदर्शन किया है  विकेट लेने की अपनी जबर्दस्त क्षमता के चलते वे वर्तमान में आईसीसी रैंकिंग में शीर्ष पर हैं   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

Police Jawan Death

पुलिस लाइन में तैनात था जवान    शिवपुरी के हाथी खाना इलाके में शनिवार की सुबह एक शव  मिलने से सनसनी फैल गई  यह शव पुलिस लाइन में तैनात आरक्षक मुकेश शर्मा का था आरक्षक की मौत कैसे हुई पुलिस इस मामले की जांच कर रही हैं  पुलिस कर्मियों के निवास इलाके हाथीखाना ठाकुर बाबा मंदिर के समीप मिला शव  लाइन में तैनात आरक्षक मुकेश शर्मा की थी जो पहले कंट्रोल रूम पर तैनात था  जानकारी मिलने पर कोतवाली पुलिस मौके पर गई और एफएसएल टीम को भी बुलाया गया   बाद में मुकेश के शव  को अस्पताल से पोस्टमॉर्टम रूम ले जाया गया  मौके पर मौजूद मुकेश के रिश्तेदारों का कहना है कि बाइक पास में रखी थी और वो नीचे पड़ा हुआ था   मौके पर मौजूद कुछ लोग मुकेश की मौत नशे की लत के चलते होने की बात कह रहे थे   हालांकि पुलिस पीएम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है   इसके बाद ही सिपाही की मौत की असल वजह सामने आएगी   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

GANG REAP

तीन आरोपी गिरफ्तार   एमपी  में महिलाओं के साथ बलात्कार कि घटनाए रुकने  का नाम नही ले रही हैं  जबलपुर में फेसबुक के जरिये दोस्ती कर गैंगरेप का मामला सामने आया है  पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने आरोपियों को पकड़ लिया है और इनके पास से हथियार भी बरामद हुए हैं    जबलपुर के शारदा चैक स्थित कालोनी के अपार्टमेंट में तीन युवकों ने युवती को बुलाया कर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया  आरोपियों ने युवती को फेसबुक के जरिए बुलाया था  पीड़ित युवती के अनुसार शुभम, कमलेश और जीतू ने उसके साथ गैंगरेप किया   यह तीनों नरसिंहपुर जिले के गोटेगांव तहसील के रहने वाले  हैं आरोपियों ने करीब 4 बजें युवती को काम के सिलसिले में बुलाया और उसके साथ रेप किया   वारदात के बाद पीड़िता ने मदन महल थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई जिसमें पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया पुलिस अधीक्षक के अनुसार तीनों आरोपियों ने पहले भी कई युवतियों के साथ एसी वारदात को अंजाम दिया है    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

AWAS YOJANA

राजनीती की भेंट चढ़ी पीएम आवास योजना  नहीं मिल रही  हितग्राहियों को बकाया राशि    प्रधानमंत्री  आवास योजना की किस्त ना  मिलने से गुस्साईं महिलाओं ने  नगर पालिका के सामने रोटियां बनाकर अनोखा  विरोध प्रदर्शन किया  अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों को  चेताने महिलाओं ने सब्जी रोटी बनाकर नगर पालिका के कर्मचारियों में  वितरित की  भाजपा के विरोध का  समर्थन करने के साथ ही सियासत तेज हो गई है  जनप्रतिनिधियों के बीच आरोप प्रत्यारोप का दौर चालू हो गया है  प्रधानमंत्री आवास योजना की किस्त नहीं मिलने से गुस्साईं महिलाओं ने गाडरवारा नगर पालिका के सामने ही रोटियां बनाकर विरोध प्रदर्शन किया  कई दिनों से धरने पर बैठीं  महिलाओं का आरोप है कि नगर पालिका के अधिकारी और अध्यक्ष के द्वारा क़िस्त अदायगी में भेदभाव किया जा रहा है   बरसात में क़िस्त की राशि समय पर न मिलने से समस्याएं खड़ी हो गई हैं  लोग अधूरे पड़े मकानों में तिरपाल डालकर रहने को मजबूर है  लोगों का कहना है की  बरसात में समस्या बड़ी विकराल होती जा रही है   बरसात  के कारण घरों में पानी घुस रहा है  , लेकिन  कोई अधिकारी  सुनने को तैयार नहीं   अधिकारियों और  जनप्रतिनिधियों की अनदेखी का शिकार हो रहे लोगों ने प्रशासन  की आंखे खोलने और चेताने के लिए यह  प्रदर्शन किया   अब नगर पालिका के सामने डेरा जमा चुकी महिलाएं न्याय की गुहार लगा रहीं है  , और जल्द से जल्द क़िस्त डालने की मांग कर रही हैं    महिलाओं के इस धरने को स्थानीय तौर पर भाजपा नेताओं का साथ मिलने से मामले में अब सियासत शुरू हो गई है  या यूँ कहें की धरने ने राजनैतिक रूप धारण कर लिया है   धरने का राजनीतिकरण होने से भाजपा और कांग्रेस दोनों ही पार्टियां इसका राजनीतिक फायदा उठाने कोई कोर कसर नहीं छोड़ रही  जब इस बारे में स्थानीय भाजपा पार्षदों से बात की गई तो उन्होंने नगर पालिका अध्यक्ष पर सीधे आरोप लगाते हुए कहा कि अध्यक्ष क़िस्त की राशि में पक्षपात कर रहीं हैं  और अपने  वालों को फायदा पहुचने का काम कर रही   कांग्रेस और भाजपा के जनप्रतिनिधि एक दूसरे पर भले ही आरोप लगा रहे हैं पर इन गरीबों का क्या जो तिरपाल डालकर बरसात में खुले आसमान के नीचे रहने को मजबूर हैं   राजनितिक खींचातानी और आरोप प्रत्यारोप के बीच धरने पर बैठे हितग्राहियों को उनका हक कब मिल पाता है यह देखने वाली बात होगी  आवास का सपना लिए बैठे हितग्राहीयों को अभी और कितना इन्जार करना पड़ेगा                    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

SHARABI ADVOCATE

चाकू के साथ वीडियो वायरल , वकील गिरफ्तार    शराब के नशे में धुत तहसील कार्यालय में काम कराने आये  एक वकील के महिला  नायब तहसीदार से अभद्रता करने का वीडियो जमकर वायरल हो रहा है  शराबी वकील की दहशत इतनी थी की लोग तहसील में ताला लगाकर भाग गए   पुलिस ने मामला दर्ज कर वकील को गिरफ्तार कर लिया है   जबलपुर में शराब के नशे में धुत एक वकील के द्वारा नायाब तहदीलदार से अभद्रता करने का वीडियो वायरल हो रहा है  बताया जा रहा है कि ये वीडियो अधारताल तहसील का है जहाँ बीते दिनों वकील शराब के नशे में धुत होकर अपना कुछ काम करवाने के लिए तहसील पहुंचा  था  वकील का नाम सामंत राज साहू बताया जा रहा है जो कि अपने साथ चाकू भी लिया हुआ था  जानकारी के मुताबिक वकील शराब पिया हुआ था और अपना काम करवाने के लिए उसने न सिर्फ महिला नायब तहसीलदार से अभद्रता की बल्कि चाकू भी चमकाया   बताया ये भी जा रहा है कि वकील  तलवार लेकर भी घूम रहा था  नयाब तहदीलदार की शिकायत पर विजय नगर थाना पुलिस ने वकील सामंत राज साहू के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है  एसपी अमित सिंह ने बताया कि आज भी वकील सामंत राज साहू नशे में तहसील पहुँच गया था   वकील की दहशत इतनी थी कि लोग तहसील छोड़कर चले गए   इतना ही नही तहसील में ताला भी लगा दिया गया   एसपी के निर्देश पर विजय नगर थाना पुलिस ने वकील को गिरफ्तार कर लिया है   सामंत राज का गंभीर अपराध मानते हुए पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है और उनके खिलाफ कानूनी कार्यवाही भी की जा रही है        

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

lok nirman vibhag

नाराज श्रद्धालुओं ने जताया विरोध   कलेक्टर के निर्देश के वाबजूद लोकनिर्माण विभाग भगवान जगन्नाथ स्वामी की यात्रा में सड़क के गड्ढों की मरम्मत  न किये जाने से नाराज श्रद्धालुओं ने विभाग के खिलाफ नारेबाजी कर विरोध जताया  विभाग के अधिकारीयों के गैरमौजूदगी में ही बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने एक  कर्मचारी को मांग पत्र सौंपा और मांग पूरा ना होने पर तालाबंदी करने की चेतावनी दी    रीवा कलेक्टर के निर्देशों के बावजूद  लोक निर्माण विभाग की उदासीनता के  चलते भगवान जगन्नाथ स्वामी की यात्रा में सड़क में मौजूद गड्ढों की मरम्मत नहीं करवाई गई  जिसके चलते श्रद्धालुओं को यात्रा में काफी असुविधा का सामना करना पड़ा  नाराज बजरंगीयो और यात्रा में शामिल श्रद्धालुओं  ने लोक निर्माण विभाग के खिलाफ नारेबाजी की  विरोध और  नारेबाजी की खबर  उच्चाधिकारियों को जैसे ही लगी   ,अधिकारी रफूचक्कर हो गये   फोन कर बुलाए जाने पर भी अधिकारी पल्ला झाड़ते नजर आये  बजरंग दाल के कार्यकर्ताओं  ने मजबूरन कार्यालय में पदस्थ एक सामान्य कर्मचारी को अपना मांग पत्र सौंपा  कार्यकर्ताओं ने  चेतावनी देते हुए कहा की अगर  मांगों को पूरा नहीं किया गया तो विभाग में तालाबंदी की जाएगी  ,जिसकी जिम्मेदारी प्रशासन की होगी   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

ELECTRICITY

सरकार के खिलाफ महिलाएं सड़क पर    भोपाल में कमलनाथ सरकार के खिलाफ महिलाओं ने बिजली बिल को लेकर जमकर प्रदर्शन किया  महिलाओं का कहना है,  कि कमलनाथ सरकार 100 रुपए बिजली बिल देने के झूठे वादे कर सरकार में आई और गरीबों को हजारों रुपए बिजली बिल थमा रही है महिलाओं ने बिजली बिल को लेकर कमलनाथ सरकार के खिलाफ धावा बोल दिया है  महिलाएं भोपाल के बेहटा गांव ,संजय नगर, मांझी नगर ,राहुल नगर आदि क्षेत्रों से इकट्ठा हुई और  प्रदर्शन किया  इन महिलाओं  का कहना है कि कमलनाथ सरकार 100 रुपए बिजली बिल देने के झूठे वादे कर सरकार में आई और गरीबों को पांच हजार से दस हजार रुपए तक बिजली का बिल भेज रही है भाजपा नेता राहुल राजपूत ने कमलनाथ सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि यह झूठी सरकार है  गरीबों को और किसानों को झूठ बोलकर सत्ता  में आई है  भाजपा की सरकार में 200 रुपए बिजली का बिल आता था  और अब गरीबो को 5000 से 1000 तक का  झूठा बिजली बिल भेज रही है                    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 NAROTTAM MISHRA

भाजपा कर रही अलोकतांत्रिक कार्य  सरकार के पास बहुमत,पूरा होगा कार्यकाल   कर्नाटक में बागी विधायकों के इस्तीफे  के बाद मध्यप्रदेश में भी सियासत शुरू हो गई है  पूर्व जनसमपर्क मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बड़ा बयान  देते हुए कहा की कर्नाटक और गोवा से मानसून मध्यप्रदेश की ओर बढ़ रहा है  मौसम बदलने वाला है  कांग्रेस डरी हुई है और विधायकों की डिनर पार्टी का आयोजन किया जा रहा है  गृहमंत्री बाला बच्चन ने जवाब देते हुए कहा सरकार के पास पूर्ण बहुमत है  , सरकार अपना कार्यकाल पूरा करेगी   कर्नाटक में सियासी भूचाल के बाद मध्यप्रदेश में  मौसम बदलाव की बयार बहने लगी है   पूर्व जनसम्पर्क मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने सरकार पर  बड़ा बयान देते हुए कहा की कर्नाटक और गोवा से मानसून अब मध्यप्रदेश की ओर बढ़ रहा है  , जिससे मौसम में  बदलाव आएगा  जाहिर हैं कि नरोत्तम ने यह बयान कर्नाटक में कांग्रेस के विधायकों के स्तीफा देने पर दिया है  निशाना सीधे तौर पर राजनीतिक बदलाव को लेकर था  नरोत्तम मिश्रा ने कांग्रेस विधायकों की डिनर पार्टी को आड़े हाथो लेते हुए कहा की सरकार डरी हुयी है इसलिए विधायकों को डिनर पार्टी दी जा रही है  ज्योतिरादित्य सिंधिया  के 5 साल सरकार चलने को लेकर नरोत्तम ने तंज कस्ते हुए कहा  की हमने कभी कहा ही नहीं 5 महीने चलेगी   नरोत्तम मिश्रा के दिए बयान पर गृह मंत्री बाला बच्चन ने कहा की सरकार के पास पूर्ण बहुमत है और सरकार अपना कार्यकाल पूरा करेगी  डिनर पार्टी को लेकर बच्चन ने कहा की जब कोई बड़ा नेता आता है तो विधायकों  ऐसी डिनर पार्टी होती है  यह सामान्य प्रक्रिया है   इसमें शक्ति प्रदर्शन जैसी कोई बात नहीं है  खेल मंत्री जीतू पटवारी ने नरोत्तम के बयान पर पलटवार करते हुए कहा की भाजपा अलोकतांत्रिक कार्य कर रही है   जो जांच के दायरे में हैं उनके द्वारा भ्रम फैलाया जा रहा है     

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 CMO RISVAT

1 लाख 17 हजार की ले रहा था घूस    शिवपुरी जिले के पिछोर नगर परिषद के मुख्य कार्यपालन अधिकारी को लोकायुक्त पुलिस ने 1 लाख 17 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है   सीएमओ यह रिश्वत नगर परिषद के ही अध्यक्ष पुत्र से मांग जा रहे  थे   जिसकी शिकायत उसने एक दिन पूर्व भी पुलिस अधीक्षक लोकायुक्त को की थी जिस पर  यह कार्यवाही शिवपुरी शहर के थ्री स्टार होटल टूरिस्ट विलेज में अंजाम दी गई   लोकायुक्त पुलिस के निरीक्षक पी.के. चतुर्वेदी और कविन्द्र सिंह चौहान ने  बताया कि पिछोर नगर परिषद में अनुकम्पा नियुक्ति से सीएमओ बने सुधीर  मिश्रा पिछले लम्बे समय से पिछोर नगर परिषद अध्यक्ष संजय पाराशर के बेटे मयंक पाराशर से नगर परिषद अंतर्गत स्वीकृत हुए निर्माण कार्यों के कार्यादेश देेने के एवज में रिश्वत मांगी जा रही थी  शिकायतकर्ता मयंक पाराशर 10 जुलाई को ग्वालियर पुलिस अधीक्षक कार्यालय में इस पूरे मामले की शिकायत की   शिकायत दर्ज करने के बाद लोकायुक्त पुलिस ने मयंक पाराशर को टेप रिकॉर्डर और रिश्वत के रूप में मांगी जाने वाली राशि अपने पास से देते हुए शिवपुरी भेजा   सुधीर मिश्रा और मयंक पाराशर के बीच होटल टूरिस्ट विलेज में रिश्वत की डीलिंग की बात हुई   मयंक पाराशर के साथ ही लोकायुक्त पुलिस भी टूरिस्ट विलेज के डाइनिंग हॉल में जा बैठी  मयंक पाराशर ने जैसे ही रिश्वत दी उसके बाद उसने लोकायुक्त पुलिस को मिस कॉल दे दिया  मिस्ड कॉल आते ही लोकायुक्त पुलिस ने तत्काल सीएमओ सुधीर मिश्रा को 1 लाख 17 हजार की रिश्वत लेते हुए  रंगे हाथों गिरफ्तार किया   पुलिस ने रिश्वत के रूप में लिए गए नोट का रंग और सीएमओ सुधीर मिश्रा के हाथ धुलवाकर केमिकल युक्त पानी मिलान के लिए अपने पास रख लिया   रिश्वत लेते हुुए पकड़े गए सीएमओ सुधीर मिश्रा के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर लिया है   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

JYOTIRAJ SINDHIYA

बीजेपी अपने गिरेबान में झांके     कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने जल्द से जल्द कांग्रेस में नया पार्टी अध्यक्ष बनाने की बात कही  ज्योतिरादित्य ने कहा की राहुल गांधी के पार्टी अध्यक्ष ना बनने के निर्णय को लेकर अडिग रहने पर उन्हें गर्व है  उन्होंने जन मानस के हित में नेतृत्व किया था   सिंधिया ने मध्यप्रदेश की कांग्रेस सरकार को लेकर कहा कि सरकार पूरे पांच साल चलेगी  ज्योतिरादित्य सिंधिया ने हुए कहा की उन्हें पद और कुर्सी का लालच कभी नहीं रहा   पार्टी के राष्ट्र्रीय अध्यक्ष पद के लिए जल्द से जल्द चुनाव करने की बात सिंधिया ने कही  सिंधिया ने कहा की प्रदेश में सरकार अपना कार्यकाल पूरा करेगी   विपक्ष पर निशाना साधते हुए उन्होंने  कहा की बीजेपी पहले अपने गिरेवान पर झांके फिर कांग्रेस पर आरोप लगाए  सिंधिया ने  राहुल गांधी के पद छोड़ने के बाद उसमे अडिग रहने को लेकर कहा राहुल जो कहते हैं वो करते है इस पर पार्टी को उनपर गर्व है    ज्योतिरादित्य ने प्रदेश की जनता की समस्याओं के लिए कहा की अगर जरूरत पडी तो वो अपनी ही सरकार से भी सवाल करेंगे   बीजेपी के प्रदेश में सरकार बनाने को लेकर सिंधिया ने कहा की बीजेपी मुंगेरी लाला के सपने देख रही है  राष्ट्र्रीय  अध्यक्ष पद को लेकर सिंधिया ने कहा की  यह निर्णय कांग्रेस की 23  सदस्यों वाली कार्य समिति का है   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 GST RAID

अधिकारी और सीए कर रहे थे ब्लैकमेल    जावरा कंपाउंड में रहने वाले 48 वर्षीय कर सलाहकार ने  इमारत की छत से कूदकर आत्महत्या कर ली   सात दिन पहले उनके घर जीएसटी टीम ने छापामार कार्रवाई की थी  अधिकारियों ने उनके ऑफिस को सील कर दिया और रोजाना देर रात तक पूछताछ के लिए बुलाते थे   जब उन पर  पत्नी से पूछताछ का दबाव बनाया तो उन्होंने आत्महत्या कर ली  कर सलाहकार के परिजनों  ने दो सीए और अधिकारियों पर ब्लैकमेलिंग का आरोप लगाया है कृष्णा अपार्टमेंट जावरा कंपाउंड  की  दूसरी मंजिल पर रहने वाले 48 वर्षीय गोविंद अग्रवाल ने बिल्डिंग से कूद कर खुदकशी की कोशिश की  उन्हें  गंभीर अवस्था में गीताभवन चौराहा स्थित निजी अस्पताल में भर्ती किया गया   पुलिस अस्पताल पहुंची, तब तक डॉक्टर उन्हें मृत घोषित कर चुके थे   मृतक के बेटे उमेश  ने बताया कि पिछले शुक्रवार को सुबह करीब 12 बजे चार जीएसटी अधिकारी आए थे  उन्होंने सर्च वारंट बताया और घर की तलाशी शुरू कर दी   उस वक्त गोविंद घर पर नहीं थे   करीब दो घंटे बाद जब घर पर आए तो अधिकारियों ने शाम पांच बजे तक पूछताछ की और दस्तावेज जब्त कर ले गए  बेटे उमेश के अनुसार पिता को कूदते किसी ने नहीं देखा    घटना के समय मां आरती पौधे में जल अर्पित करने गई थी   जोर से धड़ाम की आवाज सुनकर दौड़ीं तो पिता गलियारे में गमले पर गिरे हुए थे   एसआई कुशवाह के अनुसार बालकनी की ऊंचाई करीब 5 फीट है   यहां से गिरना संभव नहीं है   इससे यह तो स्पष्ट है कि उन्होंने आत्महत्या ही की है   राज्य जीएसटी आयुक्त डीपी आहूजा का कहना है कि 5 जुलाई को विभाग ने 30 फर्मों-कंपनियों पर जांच शुरू की थी   प्रारंभिक जांच में करीब 250 करोड़ के बोगस बिलों के जरिए करीब 50 करोड़ रुपए के कर अपवंचन के तथ्य विभाग को मिले हैं  जांच के दायरे में आई कंपनियों में से एक गोविंद अग्रवाल की पत्नी के नाम से रजिस्टर्ड है   उनके साथ जो हादसा हुआ है, वह दुर्भाग्यपूर्ण है   अब तक न तो अग्रवाल, न ही उनकी पत्नी को विभाग ने बयान के लिए बुलाया, न ही टैक्स आदि की कोई मांग निकाली थी  सीधे तौर पर उनकी संलिप्तता की बात भी सामने नहीं आई है        

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 KANYADAN YOJANA

फर्जी पंजीयन का शिकार हुए जोड़े     मुख्यमंत्री कन्यादान योजना भी अब भगवान् भरोसे चल रही है   मुख्यमंत्री कन्यादान योजना में कई पंजीकृत जोड़ो के साथ  छलावा होने  की घटना सामने आयी है   दूल्हा दुल्हन परिवेश में सामूहिक विवाह के लिए  पहुंचे जोड़ों को बताई गई जगह में ना तो आयोजन स्थल मिला ,  ना ही कोई अधिकारी   प्रदेश सरकार की  मुख्यमंत्री कन्यादान योजना  अब ठगी का केंद्र बनती जा रही है  सामूहिक विवाह सम्मलेन अब मजाक बनता जा रहा है   नरसिंहपुर के गोटेगांव में मुख्यमंत्री कन्यादान योजना में कई पंजीकृत जोड़े छलावे का शिकार हो गए   दरअसल  ग्राम सचिव और सामाजिक संगठनों ने  मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत शादी करने वाले युवक युवतियों के समस्त दस्तावेज पर नियम प्रकिया पूरी की   प्रक्रिया  पूर्ण होने के बाद उन्हें गोटेगांव की बगासपुर  और फिर  इमालिया में सामूहिक विवाह के लिए बुलाया गया   कई जोड़े परिजनों के साथ दूल्हा दुल्हन के परिवेश में गाजे बाजे के साथ इमालिया पहुंचे  , पर न वहाँ कोई आयोजन स्थल और न कोई अधिकारी मौजूद मिले   फर्जी विवाह पंजीयन   कराने से  जोड़े  खुद को ठगा महसूस कर रहे  है  जोड़ों ने  एसडीएम कार्यालय पहुंचकर  खुद के साथ धोखा होने की बात कही  एसडीएम और जनपद के अधिकारी ने बताया की  कई शादीशुदा जोड़ो के साथ अविवाहित जोड़ों का पंजीयन किया गया है   जबकि शासन द्वारा  सामूहिक विवाह का आयोजन नही किया जा रहा   पीड़ितों को थाने में शिकायत करने की सलाह दी गई जिससे दोषियों पर कार्यवाही की जा सके    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

ATMDAH

पुलिस ने नहीं सुनी तो किया था आत्मदाह      छतरपुर में पुलिस की लापरवाही के चलते आत्मदाह करने वाले युवक  के घर कलेक्टर पीड़ित परिवार को सांत्वना देने पहुंचे  उन्होनें पीड़ित परिवार को मामले की निष्पक्ष जाँच कर दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही करने का आश्वासन  दिया  साथ ही कलेक्टर ने मृतक के दिव्यांग भाई को शासन की योजनाओ का लाभ दिलाने का भी वादा किया छतरपुर एसपी आफिस के सामने पेट्रोल डालकर आत्मदाह करने वाले युवक कन्हैया के घर कलेक्टर पहुंचे  कलेक्टर ने पीड़ित परिवार को सात्वनां देते हुए उनसे पूरी घटना के बारे मे जानकारी ली  परिजनों के मुताबिक सोमवार को युवक कन्हैया अग्रवाल ने बीजेपी नेता अमन दुबे की प्रताडना के खिलाफ थाने में आवेदन देने के बाद कारवाई न करने की वजह से पेट्रोल डालकर एसपी ऑफिस के सामने आग लगा ली थी  मंगलवार की सुबह उसकी इलाज के दौरान जिला अस्पताल मे उसकी मौत हो गई  अब कलेक्टर ने परजनों को दोषियों के खिलाफ जल्द से जल्द सजा दिलाने का आश्वासन दिया है  इस पूरे मामले मे डी आई जी की रिपोर्ट आने पर लापरवाही करने वालो पर शासन कारवाई करेगा    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

ACCIDENT

हादसे में 1 की मौत,2 घायल     भोपाल में एक सड़क हदसे  में बाइक सवार तीन युवकों के  गिरने से  एक युवक की दर्दनाक  मौत हो गई , जबकि दो गंभीर रूप से घायल हो गए  बताया जा रहा है की बाइक डिवाइडर से टकरा गई जिसके बाद एक व्यक्ति ओवरब्रिज के  नीचे गिर गया जिससे उसकी मौत हो गयी   घायल युवकों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है    भोपाल के  आसाराम चौराहे पर बने ओवर ब्रिज पर  बाइक सवार तीन युवकों की  बाइक अनितंत्रित हो कर  डिवाइडर से जा टकरा गई  बताया जा रहा है की बाइक की स्पीड काफी तेज थी  और   बाइक चालक  बाइक से अपना नियंत्रण खो  बैठा   डिवायडर से बाइक की टक्कर इतनी जोरदार थी की   एक युवक ओवर ब्रिज  से नीचे सड़क पर आ गिरा  ,जिससे उसकी मौत हो गई  बाकी दो युवकों को गंभीर रूप से चोटें आई है  गंभीर रूप से घायल युवकों का अस्पताल में इलाज किय अजा रहा है  हादसा होने के बाद  108  एम्बुलेंस  समय पर नहीं पहुँच सकी 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

VIVAD

कार्यवाई ना होने पर करेंगे चक्का जाम   भारतीय जनता युवा मोर्चा की बैठक की  पुलिस के  वीडियोग्राफी कराने  एवं   एस आई के द्वारा  कार्यकर्ताओं से  अभद्र व्यवहार करने को लेकर युवा मोर्चा ने  कलेक्टर कार्यालय में ज्ञापन सौंपा  एस आई पर कार्यवाई ना करने पर कार्यकर्ताओं ने  चक्का जाम करने की  चेतावनी भी दी   बैरसिया  तहसील के ईटखेड़ी थाना क्षेत्र में भारतीय जनता युवा मोर्चा की बैठक की , ईटखेड़ी थाना पुलिस द्वारा वीडियोग्राफी करवाने और  एस आई मुकेश अलासिया की बदतमीजी के विरोध में भारतीय जनता युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने  भोपाल कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा   युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने   पुलिस की कार्रवाई पर नाराजगी जाहिर की  कार्यकर्ताओं ने  एसआई पर जल्द से जल्द कार्रवाई करने की मांग की   युवा मोर्चा अध्यक्ष प्रमोद राजपूत ने कहा कि अगर एसआई पर कार्रवाई नहीं की जाती है तो भारतीय जनता युवा मोर्चा द्वारा उग्र आंदोलन कर   जगह-जगह चक्का जाम करेगा       

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

PARESHAN MARIJ

तीन  महीनों में तीन  बीएमओ के हुए ट्रांसफर   देवास के  सोनकच्छ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की हालत खस्ता है  सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में 4 डॉक्टर पदस्थ हैं  लेकिन मरीजों को उपचार के लिए इधर उधर भटकना पड़ रहा है  कांग्रेस सरकार आने के बाद यहाँ  3 बीएमओ का ट्रांसफर हो चुका है  लेकिन यहाँ मरीजों को सुविधा मिले इसमें किसी की रूचि  नहीं है  इस इलाके से पी डब्ल्यू डी मंत्री सज्जन वर्मा नेता हैं   सोनकच्छ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की तबियत खराब है   कहने को यहाँ चार डॉकटर पदस्थ हैं लेकिन  स्वास्थ्य केंद्र में मिलता कोई नहीं   मरीज को उपचार के लिए इधर उधर भटकना पड़ता  है   स्वास्थ्य केंद्र में डॉक्टर उपलब्ध न होने से रोगियों को दीगर अस्पतालों में जाना पड़ता है   यहाँ पुलिस केस एमएलसी के  मरीजों को बहार रेफर करना पड़ता है  सोनकच्छ से कांग्रेस के बड़े नेता सज्जन सिंह वर्मा सरकार में पी डब्ल्यू डी मंत्री हैं   लेकिन वह अपने इलाके की व्यवस्था को ही दुरुस्त नहीं कर पा रहे हैं  उनके इलाके का अस्पताल एक बाबू के भरोसे चलता है    इलाके के लोग कहते हैं पहले यहाँ थोड़ी बहुत सुविधाएँ मिल भी जाती थीं   लेकिन अब इलाके के अस्पताल भगवान् भरोसे हैं   डॉक्टर्स का जब मन करता है तब आते हैं और जब इच्छा हो चले जाते हैं   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

GUNDAI

शिकायतों के बाद भी अब तक कुछ नहीं हुआ  कथित तौर पर बड़े लोगों की गुंडई का शिकार कुछ दलित परिवारों को होना पड़ रहा है  पीड़ित पक्ष के लोगों का कहना है कि बड़े लोगों ने उनकी बस्ती में जाने का रास्ता बंद कर दियाहै  मामला एमपी के गाडरवारा का है  प्रशासन इस मामले में जांच की बात कह कर मामले को ठन्डे बस्ते में दाल रहा हैं   गाडरवारा के चीचली में अम्बेडकर वार्ड नंबर में करीब सौ घरों की दलित बस्ती का रास्ता वहां के कथित बड़े लोगों  ने रोक दिया है  इससे दलित परिवार दहशत में हैं  बस्ती के लोगों को घर आने- जाने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है  पीड़ित पक्ष का आरोप है कि गांव के ही एक बड़े  परिवार ने बस्ती जाने का रास्ता रोक रखा है  बस्ती के लोग अब इंसाफ के लिए सरकारी दफ्तरों के चक्कर काट रहे हैं  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

DEATH

 मोटर लगाने के लिए कुए में उतरे थे दोनों  कुए से निकल रही जहरी ली गैस ने पिता -पुत्र दोनों की जान ले ली   यह हादसा सीहोर के मोगरा गांव में हुआ पिता -पुत्र कुए में मोटर लगाने के लिए उतरे थे   रेहटी के ग्राम मोगरा में कुएं में मोटर उतारने उतरे पिता पुत्र की मौत  हो गई   45 साल के राजेश पेशे से किसान हैं  राजेश अपने घर मे बने कुए में उतरे हुए थे  उनका बेटा राजा भी कुए में मोटर लगाने में उनकी मदद के लिए उतरा  लेकिन  कुएं से रिसर ही किसी जहरीली गैस की चपेट में दोनों आ गए और उनकी कुए में ही मौत हो गई   पिता -पुत्र के शव निकलने के लिए एक युवक कुए में उतरा तो गैस के प्रभाव से वो भी बेहोश हो गया  इसके बाद पुलिस मौके पर पहुँची और सीहोर सेरेसक्यूटीम बुलाकर पहले बेहोश युवक को कुए से निकाल कर इलाज के लिए भेजा और फिर दोनों शव निकाल कर पोस्टमार्टम के लिए भेजे    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

KAMALNATH CHIKITSA

स्वास्थ्य केंद्र में ताला लगा कर डॉक्टर गायब जबलपुर बरगी विधानसभा क्षेत्र के  सरकारी अस्पतालों में अव्यवस्थाओं का आलम कम होने का नाम नहीं ले रहा है   एक गर्भवती महिला अस्पताल के बाहर एम्बुलेंस में एक घंटे दर्द से तड़पती रही लेकिन  महिला को इलाज करने के लिए  कोई चिकित्सक या नर्स नहीं आया  परिजनों की बार-बार शिकायत के बाद भी कुछ नहीं  हुआ  तो महिला को दूसरे अस्पताल ले जाया गया   बरगी  विधानसभा के भिड़की में मरीजों  के साथ खिल वाड किया जा रहा हैं   सामुदायिक उप स्वास्थकेन्द्र पर शेखर बर्मन अपनी पत्नी किरण बर्मन को प्रसव करवाने के लिये भिड़की अस्पताल लाये  लेकिन अस्पताल में ताला लगा था ओर नर्स से लेकर डॉक्टर तक सब नदारत थे  कोई नही मिलने के कारण प्रसूता 1 घंटे दर्द से तडफती  रही जब घंटो इंतजार करने के बाद कोई नही पहुँचा तो ग्रामीणों की सलाह पर प्रसूता को चरगवां स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गयाजहां महिला ने एक लड़की को जन्म  दिया  वही ग्रामीणो का कहना हे की भिड़की  स्वास्थ्य केंद्र में आये दिन कर्मचारी नदारत रहते हैं  इस घटना के बाद आनन  फानन में पहुंचे एक कर्मचारी ने बताया कि नर्स मीना पासी की ड्यूटी है और वह ताला लगाकर कहीं चली गई है  एक मरीज के लिये डॉक्टर भगवान का रूप होता है लेकिन इसी प्रकार की घटना एंडॉक्टर्स का सम्मान कम कर रही हैं अब देखना यह होगा कि लापरवाही बर्तने बाले कर्मचारियों पर स्वास्थ्य विभाग क्या कार्यवाही करता  है        

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

laaparwaahi

अस्पताल पर लापरवाही का आरोप      सांप के काटने के बाद हॉस्पिटल में इलाज के दौरान  ऑक्सीजन न मिल पाने से एक व्यक्ति की  मौत हो गई   परिजनों ने मरीज की मौत के लिए  डॉक्टर और हॉस्पिटल  की  लचर  व्यवस्था को  जिम्मेदार ठहराया है   नईगढ़ी में सर्पदंश के बाद  एक मरीज की इलाज के दौरान मौत हो गई   बताया जा रहा है की  ऋषि मिश्रा को सांप  के  काटने के बाद   हॉस्पिटल में भर्ती किया गया था  जहां डॉक्टरों द्वारा इलाज में लापरवाही बरती  गई , जिसके चलते मरीज की मृत्यु हो गई  परिजनों का आरोप है कि जब उसकी ज्यादा हालत बिगड़ने लगी तो मृतक ने खुद डॉक्टर को ऑक्सीजन लगाने के लिए कहा    सिलेंडर में ऑक्सीजन न होने की वजह से  डॉक्टर द्वारा इस व्यवस्था में पर्दा डालने के लिए खाली ऑक्सीजन मास्क  लगा दिया  परिजनों ने बताया की मरीज को  सांस लेने में परेशानी थी लेकिन बिना आक्सीजन के मास्क लगा दिया गया  जिस कारण सांस रूक गयी और मरीज की मौत हो गई  इसके लिए अस्पताल की व्यवस्था जिम्मेदार है    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

CONGRESS PARTY

कोंग्रेसियों ने मांगा सरकार से प्लॉट    कोंग्रेसियों ने  रीवा में कांग्रेस कर्यालय बनाने के लिए सरकार से  प्लाट उपलब्ध कराने  की मांग की  है   कार्यकर्ताओं का कहना है की पार्टी भवन का निर्माण जनभागीदारी से किया जाएगा  भवन के निर्माण के लिए  मुख्यमंत्री कमलनाथ  को  ज्ञापन भी सौपा जायेगा  रीवा में  कांग्रेस भवन बनाने की कवायद  तेज हो गई है  अखिल भारतीय ब्राम्हण समाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष संजय त्रिपाठी ने बताया की आजादी के 72 वर्षों के बाद भी कांग्रेस  का कार्य  करने के लिए  जिले में कार्यालय  नहीं बना  कार्यालय के अभाव में जनहितकारी कार्य योजनाओं का लोक प्रचार नहीं हो पा रहा है जबकि प्रचार ही लोकतंत्र में प्रभावी संसाधन है  इन नेताओं ने सांसद राजमणि पटेल एवं बृजेश पांडे से चर्चा उपरांत  आग्रह किया गया है कि  जिला मुख्यालय में कांग्रेस भवन हेतु भूमि आवंटित की जाए  एवं  2020 के पहले भव्य कांग्रेस भवन को  विंध्य कांग्रेस भवन के नाम से निर्माण कराया जाय       

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

HATHYA

मामले की जांच में जुटी पुलिस  चोरों से  मोबाइल  वापस मांगने  आए  एक ट्रक चालक  की चाकू मारकर  हत्या करने का  सनसनी खेज मामला सामने आया है पुलिस ने हत्या के आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है चोरों से अपना मोबाइल वापस मांगना  एक ट्रक चालक को इतना महंगा  पड़ गया की  ट्रक चालक को इसकी कीमत अपनी जान गंवा  कर चुकानी पड़ी  मामला रीवा  के  सिविल लाइन थाना का है  जहाँ तीनों  आरोपियों निखिल चौधरी ,विमल पासी ,विकाश सिंह ने ट्रक चालक से सबसे पहले मोबाईल की मांग  की चालक के मना करने पर आरोपियों ने मोबाइल छीन  लिया  ट्रक चालक आरोपियों के पीछे पीछे अपना मोबाइल लेने गया तो इन बदमाशों ने ट्रक ड्राइवर  को कुछ दूर ले जा कर चाकुओं से हमला कर दिया   इस हमले में ट्रक चालक की मौत हो गई  पुलिस ने लाश को अपने कब्जे में  लेकर मामले की जांच  की और कुछ ही घंटों में हत्यारों को पकड़ लिया  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

CHHATARPUR MURDER

 पत्नी सहित पांच आरोपियों को जेल  पत्नी ने  प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या कर दी पड़ोस में रहने वाले एक व्यक्ति से महिला के अवैध सम्बन्ध थे जिसके बाद मृतक की पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या कर दी  पुलिस ने मृतक की पत्नी और उसके प्रेमी सहित तीन अन्य को गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया,जहां से अदालत ने पांचो को जेल भेज दिया है छतरपुर  के बडामलेहरा मे पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या कर दी  बडामलेहरा पुलिस ने इस मामले में  खुलासा करते हुए बताया की  पिछले महीने  बडामलेहरा स्वास्थ्य केन्द्र मे राजेश साहू मृत अवस्था मे लाया गया था  जिसकी सूचना अस्पताल की नर्स ने बडामलेहरा पुलिस को दी जब पुलिस ने इस मामले की तहकीकात शुरू की ,तो पता चला राजेश की मुंह दबाकर हत्या की गई है पुलिस ने इस मामले मे जब पत्नी से कड़ाई से पूछताछ की तो उस पति की हत्या के  पूरे राजखोल दिये  मृतक की पत्नी विनीता ने बताया, कि पडोस मे रहने वाले संदीप राय से उसके अवैध संबंध थे जिसकी भनक उसके पति  को लग गई थी पति के मना करने पर पत्नी नाराज हो गई,और प्रेमी से मिलकर पति को ठिकाने लगाने को तैयार कर लिया प्रेमी संदीप ने अपने तीन साथियो को चार  लाख पचास हजार की सुपारी देक राजेश को ठिकाने लगाने की योजना बनाई  बताया जा रहा है की घर पर सो रहे पति को संदीप और विनीता ने मुंह से दबाया और  संदीप के तीन अन्य साथियो ने उसके पैर पकडे और जब तक राजेश की मौत नही हो गई, तब तक उसका मुंह दबाये रखा पुलिस ने मृतक राजेश की पत्नी विनीता और  उसके प्रेमी संदीप राय सहित तीन अन्य को गिरफ्तार कर लिया है जिसके बाद अदालत मे पेश किया गया,जहां से अदालत ने पांचो को जेल भेज दिया   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

SANJAY GHANDHI HOSPITAL

अव्यवस्था दूर करने के लिए ज्ञापन  प्रदेश में  सरकरी अस्पतालों  की स्थिति दयनीय होती जा रही है  रीवा  स्थित संजय गांधी अस्पताल की अव्यवस्थाओं को लेकर शहर के विभिन्न  सामाजिक संगठनों ने संभागीय आयुक्त  को  ज्ञापन सौंपा   रीवा स्थित  संजय गांधी अस्पताल में अव्यवस्थाओं को लेकर अब सामजिक संगठन आगे आये हैं  सामाजिक संगठनो ने संभागीय आयुक्त को 15  बिंदुओं पर  ज्ञापन सौंप कर व्यवस्था सुधारने की मांग की है  अस्पताल में दूर-दूर से ग्रामीण एवं शहरी लोग इलाज कराने आते हैं लेकिन यहां की अव्यवस्थाओं  का उन्हें शिकार होना पड़ता है  संगठनो की मांग है की  , प्रत्येक दिन डॉक्टरों की जानकारी ऑनलाइन उपलब्ध होने के साथ ही डॉक्टर की  ड्यूटी  का सख्ती से पालन हो  अस्पताल में पार्किंग को लेकर मरीजों के परिजनों को बड़ी परेशानी होती है  पार्किंग वसूल रहे लोगों द्वारा मरीजों के परिजनों के साथ अभद्रताके साथ मारपीट की जाती है  ओपीडी में व्यवस्था सुधारने के साथ साथ ब्लड बैंक में चल रहे गोरखधंधे पर कार्यवाई की मांग की गई  सामाजिक संगठनो ने बताया की ऑपरेशन के दौरान अस्पताल में 70% से ज्यादा दवाइयां डॉक्टर द्वारा बाहर से मंगाई जाती हैं  जिसे बंद कराया जाना चाहिए दवाएं अस्पताल में उपलब्ध हों ऐसी व्यवस्था की जाये  .डॉक्टरों द्वारा लिखी जाने वाली 50% दवाइयां अस्पताल में उपलब्ध नहीं होती जिसे पीड़ित बाहर से खरीदने के लिए मजबूर होते हैं  गंभीर बीमारियों की दवाइयां अस्पताल में मिलती ही नही हैं  अस्पताल  में साफ़ सफाई हो और वार्डों में निगरानी के लिए कैमरे लगाये जाने की बात ज्ञापन में कही गई है  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

Mp  Weather

अगले दो दिन रहेगा ऐसा ही मौसम  मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में बारिश का सिलसिला जारी है   इसी क्रम में पिछले दो दिनों से भोपाल,रायपुर ,इंदौर ,अंबिकापुर ,उज्जैन ,रतलाम में जोरदार बारिश के कारण मौसम ठंडा हो गया है  मैसम विगयानियों का मानना है इन दोनों प्रदेशों में अगले दो दिनों तक ये सिलसिला चलता रहेगा  भोपाल और रायपुर में  शुक्रवार-शनिवार की दरमियानी रात तेज बौछारें पड़ीं   इस सीजन में पहली बार रातभर बारिश हुई   मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक वर्तमान में एक ऊपरी हवा का चक्रवात उत्तरी मध्यप्रदेश  और दक्षिणी मध्यप्रदेश के साथ छत्तीसगढ़ के ऊपर बना है   गुजरात पर भी एक ऊपरी हवा का चक्रवात सक्रिय है   इसके अतिरिक्त राजस्थान से पश्चिम बंगाल होते हुए एक ट्रफ बंगाल की खाड़ी तक जा रहा है   इस वजह से इन प्रदेशों  में बड़े पैमाने पर आ रही नमी मानसून को ऊर्जा दे रही है   वरिष्ठ मौसम विज्ञानी एसके डे के मुताबिक अभी एक-दो दिन तक बारिश का सिलसिला जारी रहेगा   विशेषकर मालवा, निमाड़ और बस्तर क्षेत्र में तेज बौछारें पड़ती रहेंगी   इसके अलावा भोपाल, सागर, ग्वालियर व चंबल संभाग में भी झमाझम बारिश होने के आसार बने हुए हैं   महाकोशल-विंध्य के कुछ जिलों में  झमाझम बारिश हुई तो बाकी जिलों में काले बादल छाए रहे  मंडला में सुबह लगभग 10 बजे के बाद फिर बारिश शुरू हुई, जो लगातार जारी रही   कभी तेज तो कभी धीमी पर बारिश का क्रम लगातार बना रहा   जिससे नर्मदा का जलस्तर बढ़ गया है  वहीं रीवा में दोपहर तीन बजे घने काले बादल छा गए और आधे घंटे तक झमाझम बारिश होने से सड़कें तालाब बन गईं   पिछले 24 घंटे में झमाझम बारिश से कई गांवों के खेतों में पानी भर गया है   बालाघाट में ट्रामा सेंटर के प्रसूता वार्ड में बारिश का पानी भर गया, जिससे प्रसूताओं को परेशानी हुई   शहडोल में दोपहर के समय दो घंटे से ज्यादा झमाझम बारिश हुई   डिंडौरी, नरसिंहपुर समेत अन्य जिलों में भी घने बादल छाए रहे और रिमझिम बारिश हुई  रायसेन क्षेत्र में लगातार तेज बारिश के कारण शनिवार को ग्राम बीनापुर स्थित काहुला पुल पर पानी आने से सागर-भोपाल मार्ग घंटों तक बंद रहा  इटारसी में लगातार बारिश के कारण कई हिस्सों में पानी भरा गया   जीआरपी थाने में पानी घुसने से वहां पुलिसकर्मियों को कुर्सी पर पांव रखकर काम करना पड़ा   इसी तरह विदिशा, सागर, होशंगाबाद, हरदा, अशोकनगर, राजगढ़ आदि जिलों में भी बारिश हुई   मालवा-निमाड़ अंचल में चार दिनों से बारिश का सिलसिला जारी है  उज्जैन में शिप्रा, गंभीर और चंबल नदी का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है  धार जिले में तेज बारिश से एक दर्जन से अधिक गांवों में जल जमाव की स्थिति बन गई   खंडवा में निचले इलाकों में जलजमाव की स्थिति बन गई है       

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

Dhokha dhadi

  बड़े व्यापारियों को बनाते थे निशाना    फर्जी  चेक  लगा  कर  धोखा  धड़ी करने  वाले  गिरोह  का पुलिस ने पर्दा फाश करने में बड़ी कामयाबी  हासिल  की  पुलिस ने मामला  दर्ज  कर  4 आरोपियों  को  गिरफ्तार  किया है  आरोपियों के  कई और  मामलो  में  शामिल  होने  की  आशंका  जताई जा रही है  भोपाल की हबीबगंज पुलिस ने फर्जी चेक लगाकर धोखा धड़ी  करने  वाले गिरोह का पर्दाफाश किया  asp संजय साहू ने बताया की पकड़े गए आरोपी फर्जी चेक से पेमेंट  कर माल को कम  दाम में दूसरो को बेच दिया करते थे आरोपी गाड़ी में फर्जी नंबर  प्लेट  लगाकर  इस ठगी  के  काम  को अंजाम देते थे आरोपियों  ने  संजीव  कुमार  नामक  व्यापारी  को  फर्जी  चेक  देकर  लगभग  92 हज़ार  की  चपत  लगाई  आरोपियों  से  एक  इंडिगो और एक इन्नोवा गाड़ी बरामद की गयी  आरोपी गौरव त्रिवेदी,गोपाल यादव,धीरज,और प्रणय सक्सेना को  हिरासत  में  लेकर  पुलिस  पूछताछ  कर  रही  है  आरोपियों  से  कई  और  वरदाताओ  का  खुलासा  होने  की सम्भावना है  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

Digvijay singh

सोशल मीडिया पर रोक लगाने की मांग  राज्य सभा सांसद दिग्विजय सिंह ने कश्मीर मुद्दे पर गृहमंत्री अमित शाह पर निशाना साधते हुए कहा की, एक तरफ कश्मीर युवकों को मुख्य धारा में जोड़ने की बात की जा रही वहीं दूसरी तरफ sms के जरिये कश्मीरी युवकों को बदनाम किया जा रहा है दिग्विजय ने सोशल मीडिया पर रोक लगाने के साथ कार्यवाई की मांग की मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने कश्मीर मुद्दे पर बड़ा बयान देते हुए कहा की गृहमंत्री अमितशाह कश्मीर मुद्दे पर दोहरा माप दंड अपना रहे हैं अमित शाह पर प्रहार करते हुए दिग्विजय ने कहा कि एक तरफ अमित शाह अपनी रिपोर्ट में कश्मीरी युवकों को मुख्य धारा से जोड़ने की बात करते हैं  वहीं दूसरी ओर सोशल मीडिया पर कश्मीर केलोगों के खिलाफ चल रहे s.m.s. पर रोकन हीं लगा रहे   दिग्विजय सिंह ने गृह मंत्रालय को एक लेटर लिखा है जिसमें इस प्रकार के s.m.s. और व्हाट्सएप पर रोक लगाने की मांग की है दिग्विजय ने आर एस एस को भी आड़े हाथो लेते हुए कहा की आर एस एस की एक संस्था कश्मीरी लोगों के खिलाफ सोशल मीडिया पर भ्रम फ़ैलाने का कार्य कर रही है    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

aavshes ki khooj

 प्राचीन सभ्यता जानने मिलेगी सहायता   इंडियन इंस्टीयूट ऑफ साइंस एजुकेशन  एन्ड  रिसर्च मोहाली  के अनुसंधानकर्ता की टीम ने नरसिंहपुर में नर्मदा पर  3000 साल से 3 लाख वर्ष पुराने जीवाश्म और पाषाण अवशेष की खोज में बड़ी सफलता हासिल की है  माना जा रहा है की  नर्मदा किनारे की गई इस खोज से भूतकाल के कई रहस्यों  से पर्दा उठने में सहायता मिलेगी  वैज्ञानिकों का कहना है की नर्मदा घाटी सभ्यता कई लाख वर्ष पुरानी है जो अब विलुप्त हो चुकी है इंडियन इंस्टीयूट ऑफ साइंस एज्युकेशन एड रिसर्च मोहाली के अनुसंधानकर्ता की टीम ने नरसिंहपुर में नर्मदा की तलहटी में  3000 साल से 3 लाख वर्ष पुराने जीवाश्म और पाषाण अवशेष की खोज की है  वैज्ञानिकों द्वारा नर्मदा किनारे की गई इस खोज से भूतकाल के कई रहस्यों पर से पर्दा उठाने में बड़ी भूमिका रहेगी   मोहाली से आये शोधकर्ताओं द्वारा यहां आदिमानव की जीवनशैली और उनके जीवाश्म की शोध पिछले छह माह से की जा रहा थी   जिसमे शोधकर्ताओं को कई जीवाश्म और महत्वपूर्ण अवशेषों के रूप में सफलता हाथ लगी है   नर्मदा किनारे मिल रहे जीवाश्म एवं  औजारो से यह अंदाजा लगाया जा सकता है कि यहां किसी सभ्यता का अस्तित्व रहा होगा   आदिमानव के औजार  मिलना  इसका प्रमाण है की यह सभ्यता लगभग तीन हजार से तीन लाख साल पुरानी है जलीय जीव और विल्पुत हो चुके प्राणियों के  जीवाश्म मिलने से  अंदाजा लगाया जा सकता है कि नर्मदा नदी के किनारे बड़ी संख्या में वन्य प्राणी रहा करते थे   नर्मदा नदी के दोनों ओर विंध्य एवं सतपुड़ा पहाड़ियों में चल रही खोज एवं शोध में वैज्ञानिकों को मिली सफलता के चलते कई वर्षों पुराने रहस्यों से पर्दा उठने की उम्मीद है  आईआईएसआर की अन्वेषण टीम सिंघु घाटी और हड़प्पा की तरह ही नर्मदा घाटी की सभ्यता की खोज करने यहाँ  आई हुई है

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

bhrun parikshan

नर्सिंग होम में पुलिस की छापामार कार्यवाई   रीवा के एक  नर्सिंग होम में  पुलिस ने छापामार कार्यवाई करते हुए  भ्रूण परीक्षण कर रहे डॉक्टर को कर रंगे  हाथों गिरफ्तार किया है   डॉक्टर के घर से बिना रजिस्ट्रेशन हुई भ्रूण परीक्षण करने की  मशीन भी बरामद हुयी है  रीवा जिले के खुटेही स्थित अग्रवाल नर्सिंग होम में डॉ अरुण अग्रवाल के द्वारा उनके निज निवास में भ्रूण  परीक्षण किया जा रहा था    इस मामले  में  पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए परीक्षण करते वक्त डॉक्टर को रंगे हाथ गिरफ्तार किया    बतया जा रहा हैं की  मामले को लेकर कई बार भ्रूण परीक्षण करने की शिकायत रीवा कलेक्टर को मिलती रही हैं   इसके बाद रीवा कलेक्टर ने पुलिस की मदद से एक टीम गठित कर नर्सिंग होम में डॉक्टर को रंगे हांथों  पकड़ा    जहां डॉक्टर के  घर से बिना रजिस्ट्रेशन  मशीन भी बरामद की गई है    जिसके द्वारा यह परीक्षण किया जा रहा था।    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

TI sunil gupta

  सामाजिक संगठनो ने की हटाने की मांग  रीवा गोविंदगढ़  टीआई का आम देने वाला ऑडिओ सोशल मीडिया में  वायरल होने के बाद टीआई की किरकिरी होने लगी है   वसूली में व्यस्त  और निष्पक्षता  से  कार्य न करने की वजह से क्षेत्र में कई संगठनो  ने  टीआई का जमकर विरोध किया   रीवा के कई सामाजिक संगठनों ने गोविंदगढ़ टीआई  सुनील कुमार गुप्ता के द्वारा दिए गए बयान को बेतुका  बताया  और निंदा प्रस्ताव पेश  किया    बताया जा रहा है की  कुछ समय से गोविंदगढ़ टीआई वसूली और निष्पक्ष का कार्य न करने की वजह से लोगों के बीच चर्चा का विषय बने हुए हैं  , और उनका क्षेत्र में जमकर विरोध भी वो रहा है   ग्रामवासी और युवा एकता परिषद के द्वारा रीवा आईजी  को ज्ञापन सौंप  कर टीआई बदलने की मांग की गई थी  बाद में आवाज उठाने वाले लोगों को शांत कराने की बात टीआई द्वारा की जा रही थी   गोविंदगढ़ टीआई किसी को भी गुंडा बदमाश बता देता है   उसने अपने खिलाफ  ज्ञापन देने वाले को भी अपराधी बता दिया  ऑडियो सोशल मीडिया में वायरल  होने के बाद   टीआई ने ऑडियो  पर  अपना पक्ष रखते हुए  कहा कि आम की मांग की जा रही थी इस कारण हमने आम देने  की बात की  टीआई द्वारा मीडिया के सामने कहीं गई बातें  निंदा का विषय बन गई  है   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

Rameshwar sharma

पर्यावरण बचाने के लिए किया वृक्षारोपण  हुजूर विधायक एवं भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष रामेश्वर शर्मा ने अपने जन्मदिन पर,  समाज को समर्पित करने वाले संत  हिरदाराम साहिब के समाधी स्थल पहुंचकर माथा टेका और  आशीर्वाद लिया संत हिरदाराम नगर में हुजूर विधायक एवं भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष रामेश्वर शर्मा के जन्मदिवस पर कई आयोजन हुए  विधायक रामेश्वर शर्मा सुबह संत हिरदाराम जी की समाधि स्थल पर माथा टेकने पहुंचे  इस मौके पर विधायक ने कहा की  आपकी कृपा आपके आदर्श सदैव मेरे सार्वजनिक जीवन में सहयोग प्रदान करते रहेंगे  रामेश्वर शर्मा का भारतीय जनता पार्टी मंडल द्वारा संत की कुटिया के  बाहर  जोरदार स्वागत किया गया   जन्म दिवस के अवसर पर  रामेश्वर शर्मा ने  वृक्षारोपण कर पर्यावरण बचाने की पहल भी की    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

Good father

 आरोपित ने  अफसरों-नेताओं को फोन लगाकर मांगी फिरौती  आरोपित का नाम राजरतन है  आरोपित जो फिरौती के लिए मैसेज करता था उसे पहले से ही एक पर्ची पर लिख कर  रख लिया करता था  Race-2 फिल्म देख नाम बना 'गॉड फादर', अफसरों-नेताओं को फोन लगाकर मांगी फिरौती  पूर्व विधायक सत्यनारायण पटेल को एसएमएस व कॉल कर 50 लाख की प्रोटेक्शन मनी मांगने वाले आरोपित ने इंदौर कमिश्नर सहित कांग्रेस नेता और निगम अफसर से 25 लाख रुपए मांगना कबूला है। आरोपित की बहन नगर निगम के बगीचे में काम करती है। वह विधानसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस नेता के कार्यालय से नेताओं और अफसरों के नाम व नंबरों की सूची ले गई थी। आरोपित ने उसमें से फिरौती के लिए नामों का चुनाव किया। आरोपित ने रेस-2 फिल्म देखकर खुद का नाम 'गॉड फादर" रखा था। वह जो मैसेज करता था, उसकी लाइन पर्ची पर लिखकर रख लेता था। क्राइम ब्रांच एएसपी अमरेंद्र सिंह के मुताबिक, आरोपित का नाम राजरतन (24) पिता अनिल तायड़े निवासी नर्मदा प्रोजेक्ट स्टोर आजाद नगर है। वह 12वीं तक पढ़ा है और मार्शल आर्ट्स की क्लास चलाता है। पूछताछ में उसने कबूला कि वह रुपए वसूल कर अमीर बनना चाहता था। इसके लिए सात माह से तैयारी में जुटा था। बहन कांग्रेस नेता शेख अलीम का चुनाव कार्यालय संभालती थी। विधानसभा चुनाव के दौरान शेख पूर्व विधायक पटेल के प्रचार-प्रसार में जुटे हुए थे। आरोपित ने बहन के बैग से एक सूची निकाली, जिसमें अफसर और नेताओं के नाम व नंबर लिखे थे। उसी से वह लोगों को धमकाने लगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

vivadit makaan toda

आकाश के बल्लेबाजी की वजह बना माकन टूटा   बीजेपी विधायक आकाश विजयवर्गीय ने जिस मकान को टूटने से बचाने के लिए नगर निगम अधिकारी पर बल्ला चलाया था  नगर निगम ने उस विवादस्पद मकान को जमींदोज कर दिया है   उस मकान में रहने वालों को दूसरी जगह शिफ्ट कर दिया गया है    नगर निगम रोड गंजी कंपाउंड स्थित विवादित मकान को तोड़ने की कार्रवाई शुक्रवार सुबह शुरू  हुई     निगम ने कार्रवाई की सूचना जिला प्रशासन को दे दी थी   जिसके बाद बड़ी संख्या में पुलिस बल की मौजूदगी में दो मंजिला मकान जेसीबी की मदद से गिराया गया  मौके पर 4 पुलिस थाना और एक महिला थाने  के 5 टीआई, रिजर्व बल सहित 100 पुलिसकर्मी मौजूद थे   नगर निगम के भवन अधिकारी असित खरे भी यहां मौजूद थे, जिनका उस दिन विधायक आकाश विजयवर्गीय से विवाद हुआ था  निगम के बिल्डिंग ऑफिसर असित खरे ने बताया कि मकान में रहने वाले एक किराएदार भेरूलाल श्रीवंश ने खुद संपर्क कर फ्लैट की चाबी ली जबकि बुधवार को वह नहीं मिला तो निगम अधिकारियों ने उसके बेटे के  घर पर जाकर नोटिस दिया था   जर्जर मकान में उनका जो सामान रखा था, उसे निगम के डंपर की मदद से भूरी टेकरी स्थित शहरी गरीबों के फ्लैट  में शिफ्ट कर दिया गया है   किराएदार ने स्थायी रूप से फ्लैट लेने की इच्छा जताई तो उसे कहा गया है कि फ्लैट खरीदने के लिए फॉर्म भरना होगा और छह-सात लाख रुपए देने होंगे   आज जब इस मकान को तोड़ा जा रहा था तो दूर दूर तो कोई नेता नजर नहीं आया     

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

Death

मछली पकड़ ने गये थे चाचा- भतीजा रीवा के नईगढ़ी थाना क्षेत्र के तालाब में चाचा भतीजे की डूबने से मौत हो गई घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से दोनो केशव को तालाब से बाहर निकाला  ये दोनों तालाब में मछली पकड़ ने गए थे  चाचा भतीजे को मछली पकड़ने का शौक भारी पड़ गया   चाचा और भतीजा दोनों गांव के तालाब पर मछली पकड़ ने गये थे इसी दौरान भतीजे का अचानक पैर फिसलाऔर वो तालाब में गिर गया  उसे बचाने के लिए चाचा ने भी तालाब में छलांग लगा दी  चाचा डूब रहे भतीजे को बचा पाता उससे पहले वह खुद मछली के जाल में उलझगया  मछली के जाल में उलझने के कारण दोनों पानी में डूब गए  इनके नाम बब्बू साकेत ओर अशोक साकेत बताये गए हैं   घटना के बाद से ही गांव में मातम छाया हुआ है

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

Dharna

पुलिस वसूली में व्यस्त,जनता हो रही है त्रस्त रीवा में मऊगंज विधायक थाना प्रभारी के विरोध में कार्यवाई की मांग को लेकर थाने के सामने धरने पर बैठ गए  विधायक का आरोप है की थाना प्रभारी वसूली में व्यस्त हैं और क्षेत्र अपराधों का गढ़ बनता जा रहाहै ... विधायक ने चेतावनी देते हुए कहा की जब तक थाना प्रभारी को निलंबित नहीं कर दिया जाता तब तक वो धरने पर बैठे रहेंगे   रीवा में मऊगंज विधायक प्रदीप पटेल, शाहपुर थाना के सामने थाना प्रभारी पर कार्यवाई की मांग को लेकर धरने पर बैठ गए   विधायक थाना प्रभारी विजय सिह बघेल सहित चार पुलिस कर्मियो के निलंबन की माग  कर रहे हैं     विधायक का आरोप है की शाहपुर थाना मे पीडितो की रिपोर्ट नही लिखी जाती  ...ग्रामीणों द्वारा बीते कई  माह से शाहपुर थाना प्रभारी विजय सिंह बघेल की शिकायतें आ रही थी, जिसके चलते उनको धरने पर बैठने  के लिए मजबूर होना पड़ा  पुलिस वसूली मे व्यस्त है और क्षेत्र मे अपराध बढ़ता जा रहा है  जगह जगह शराब  गांजा, खुले आम बिक रहा है छेड़खानी की घटना भी बढाती जा रही है  ...  जनता त्रस्त है, थाने में आम लोगों के साथ गाली-गलौज की जाती है   विधायक ने बताया की जनता चार पुलिसकर्मियों से त्रस्त हो चुकी है  जनता की मांग है की उन्हें तत्काल निलंबित किया जाए  फरियाद लेकर धरना स्थल पर पहुचे कई पीडितो ने भी  टीआई विजय सिंह बघेल के निलंबन की माग की   विधायक ने चेतावनी देते हुए कहा कि जब तक इन पुलिस वालों को निलंबित नहीं किया जायेगा तब तक धरने पर बैठे रहेंगे    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

TAKKAR

हादसे में बाइक सवार व्यक्ति की मौत बालाघाट बैहर रोड पर उकवा समनापुर के बीच बस ने एक बाइक को टक्कर मार दी। हादसे में बाइक सवार व्यक्ति की मौत हो गई और महिला और बच्ची घायल हो गए। बस और बाइक की तेज टक्कर में एक साल की बच्ची को एक खरोंच तक नहीं आई। सभी लोग इसे चमत्कार मान रहे हैं। जानकारी के मुताबिक घनश्याम टेकाम(40) अपनी पत्नी वर्षा टेकाम और एक वर्षीय सीता के साथ बाइक पर जा रहे थे। इसी दौरान एक रास्ते से गुजर रही एक तेज रफ्तार बस ने उनकी गाड़ी को तेजी से टक्कर मार दी। घटना में मौके पर पही घनश्याम में दम तोड़ दिया और उनकी पत्नी वर्षा गंभीर रूप से घायल हो गईं। महिला को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती किया गया है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

kishan

नहीं आया कृषि मंत्री के पत्रों का जवाब   एमपी के कृषि मंत्री सचिन यादव केंद्र सरकार से मूंग के मसले पर खफा हैं उनका कहना है केंद्र सरकार किसानों  के हित को देखकर निर्णय ले कृषि मंत्री सचिन यादव मूंग के मसले को लेकर परेशान हैं   ग्रीष्मकालीन मूंग की खरीदी को लेकर केंद्र सरकार को 2 बार पत्र लिखने के बाद भी कुछ पॉजिटिव रिस्पांस नही आ रहा है   यादव का कहना है  हम उम्मीद कर रहे है केंद्र सरकार किसानों के हित को  ध्यान में रखकर इस पर निर्णय ले  .मूंग के मसले को देखकर लगता है कि राज्य सरकार और केंद्र सरकार के बीच फिलहाल कोई सामंजस्य नहीं है या फिर मध्यप्रदेश अपनी बात ढंग से केंद्र के सामने नहीं रख पा रहा है        

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

Avedh Hotal

सोसायटियों की आवासीय जमीन पर बगैर भूमि डायवर्शन के नक्शा स्वीकृत कराये होटल बनाना होटल मालिक को महंगा पड़ गया | हाईकोर्ट ने  6 मंजिला होटल को ढहाने का आदेश दिया था | इंदौर रोड पर अवैध रूप से बनी 20 करोड़ रुपए की होटल शांति क्लार्क इन सुईट्स की इमारत बुधवार को बारूद लगाकर ध्वस्त कर दिया गया। होटल के दो हिस्सों को 34 किलो विस्फोटक लगाकर उड़ाया गया। इसका शेष हिस्सा कल तोड़ा जाएगा।   बता दें कि इस होटल का निर्माण विभिन्न सोसायटियों की आवासीय जमीन पर बगैर भूमि डायवर्शन के नक्शा स्वीकृत कराकर किया गया था। हाईकोर्ट ने इस 6 मंजिला होटल को ढहाने का आदेश दिया था। गौरतलब है कि इस होटल निर्माण 3 हिस्सों में हुआ था। इस इमारत को ध्वस्त करने के लिए कवायद कुछ दिनों से चल रही थी।जेसीबी, पोकलेन से दीवारें तोड़ी थी जिसके बाद कुल 101 पिलर सामने आए। फिर इन पिलरों में बारूद भरा गया। इंदौर के विस्फोटक एक्सपर्ट शरद सरवटे के निर्देशन में इस होटल को ध्वस्त किया गया। पलक झपकते ही 20 करोड़ की लागत वाली ये होटल जबर्दस्त धमाके के साथ जमींदोज हो गई। विस्फोट के दौरान धुल का गुबार निकला और होटल के दो हिस्से जमींदोज हो गए। इमारत में विस्फोट के पहले जनसामान्य की सुरक्षा के लिहाज से नगर निगम आयुक्त प्रतिभा पाल के निर्देश पर पास की होटल विक्रमादित्य को खाली करा लिया गया था। इसके अलावा हरिफाटक ब्रिज और महामृत्युंज द्वार से ट्रैफिक डायवर्ट करने और अनाधिकृत व्यक्तियों को कार्रवाई स्थल से दूर रखा गया। विस्फोटक से उड़ाने का खर्च होटल मालिस से वसूला जाएगा होटल को पहले ही दे दिए थे निर्देश  नगर निगम आयुक्त एवं प्रभारी कलेक्टर प्रतिभा पाल ने गुरुवार को होटल का मुआयना किया। उनके साथ इंदौर से आए विस्फोटक एक्सपर्ट शरद सरवटे थे। इसके बाद वैधानिक अनुमति जारी कर दी। वहीं होटल मालिक को 24 घंटे में अपना सामान बाहर करने और होटल में समस्त प्रकार की बुकिंग बंद करने के निर्देश दिए गए थे। सुप्रीम कोर्ट ने याचिका खारिज की इंदौर हाईकोर्ट की डबल बेंच के फैसले को चुनौती देते हुए होटल मालिक चंद्रशेखर श्रीवास ने सुप्रीम कोर्ट ने याचिका लगाई थी, लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने इसे खारिज कर दिया। हाईकोर्ट ने 10 दिन पहले 18 जून को होटल शांति क्लार्क इन सुइट्स की समस्त परमिशन रद्द करते हुए तोड़ने का आदेश दिया था।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

jan sunvai me pauche ghode

कलेक्टोरेट में घुसाए घोड़े  घोड़ों को कलेक्टोरेट लाए किसान आवारा घोड़ों को लेकर जब किसानों की समस्याओं का समाधान अधिकारीयों ने नहीं किया  तो परेशान किसान ने कुछ आवारा घोड़ों को पकड़ा और उन्हें कलेक्टोरेट जन सुनवाई में ले आये कलेक्टोरेट में घोड़ों को देखकर अफसर भी हैरत में पड़ गए बुरहानपुर कलेक्टोरेट में बड़ी संख्या में घोड़े देखकर लोग अचरज में पड़ गए  करीब 12 घोड़ों को शहर से सटे गांव पातोंडा के किसान हांककर लाए और जनसुनवाई में अपर कलेक्टर रोमानुस टोप्पो को शिकायत की कि ये हमारी फसल को नुकसान पहुंचा रहे हैं किसानों के अनुसार बीमार होने पर इन घोड़ों को मालिकों ने छोड़ दिया है   किसानों ने बताया कि एडीएम रोमानुस टोप्पो को कक्ष से बाहर बुलाकर परिसर में खड़े घोड़े दिखाए  उन्हें ज्ञापन सौंपकर एक हफ्ते के अंदर समस्या का निराकरण नहीं होने पर आंदोलन करने की चेतावनी दी एडीएम ने नगर निगम को निर्देशित किया कि इन घोड़ों को पकड़कर कांजी हाउस में डालें और उनके मालिकों को ढूंढकर उनके खिलाफ कार्रवाई करें   किसानों ने बताया कि बुरहानपुर और लालबाग के घोड़ा पालकों ने 25 से 30 बीमार घोड़ों को छोड़ दिया है, जो गांव में हमारी फसलें उजाड़ रहे हैं   बीते सीजन में भी प्याज और गेहूं की फसल को भारी नुकसान पहुंचाया था   इस सीजन में कपास, धान व अन्य फसलों को भी नुकसान पहुंचा चुके हैं   पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों को भी कई बार शिकायत की जा चुकी है, लेकिन कोई हल नहीं निकला किसानों ने बताया कि वे दो दर्जन से ज्यादा घोड़ों को हांककर कलेक्टर के पास ला रहे थे, लेकिन आधे से ज्यादा बीच रास्ते से भाग निकले   20 से अधिक किसान घोड़ों को हांकते हुए गांव से शहर तक आए थे  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

DOCTOR SE MAARPEET

  अब भिंड में डॉक्टर से मारपीट अब मध्यप्रदेश के भिंड में मरीज के रिश्तेदारों ने डॉक्टर के साथ मारपीट की घटना सोमवार रात की है   इस घटना के दौरान कुछ पुलिसवाले भी मौजूद थे   लेकिन वे मूकदर्शक बने रहे भिंड जिला चिकित्सालय में मेडिकल जांच किए लिए आए घायल व्यक्ति के परिजनों द्वारा डॉक्टर के साथ अभद्रता और मारपीट का मामला सामने आया है  पीड़ित डॉक्टर ने मारपीट की शिकायत पुलिस में दर्ज कराई है  दरअसल अटेर थाना क्षेत्र के नावली हार गांव के रहने वाले लवली यादव का किसी से पुराना विवाद चल रहा था   सोमवार देर रात जब वह परा गांव के पास था, उसी समय कुछ लोगों ने उसे घेरकर उसके साथ मारपीट कर दी। जिसके बाद मौके पर पहुंची डायल हंड्रेड द्वारा घायल लवली यादव को जिला चिकित्सालय लाया गया जहाँ उसके रिश्तेदारों ने हंगामा किया और डॉक्टर की पिटाई लगा दी   घायल की मेडिकल जांच के दौरान उसके परिजनों ने डॉक्टर पर दबाव बनाने की कोशिश की जिसके चलते उनमें कुछ कहासुनी हुई और देखते ही देखते मरीज के परिजनों ने डॉक्टर के साथ मारपीट शुरू कर दी  इस दौरान एमएलसी कराने आया सिपाही और वहां मौजूद पुलिसवाले मूकदर्शक बने रहे    इन लोगों ने डॉक्टर को बचाने की कोशिश तक नहीं की पीड़ित डॉक्टर ने पुलिस को शिकायत दर्ज कराई  सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस कार्यवाही कर रही है  डॉक्टर के साथ मारपीट की घटना के बाद जिले के डॉक्टरों में भारी आक्रोश है   यह डॉक्टर के साथ मारपीट की कोई पहली घटना नहीं है, इससे पहले भी कई बार डॉक्टरों के साथ मारपीट और अस्पताल में तोड़फोड़ की घटनाएं हो चुकी हैं            

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

chor giroh

जुएं और शराब की लत ने बनाया चोर गाडरवाड़ा पुलिस ने बड़ी कार्यवाई को अंजाम देते हुए  बाइक चोर गिरोह को पकड़ने  में कामयाबी हासिल की है  चोरों से बड़ी संख्या में दोपहिया वाहन  जब्त किये गए हैं जिनकी कीमत लाखों में बताई जा रही है   गाडरवाड़ा में पुलिस ने एक बाइक चोर  गिरोह का पर्दाफाश  करने में बड़ी कामयाबी हासिल की है पुलिस अधीक्षक राजेश तिवारी द्वारा शातिर वाहन चोरों  को पकड़ने के लिए जिले में अलग-अलग टीमों का गठन किया गया था   मुखबिर की सूचना के आधार पर पुलिस ने वाहन चोरों को पडकने में सफलता हासिल की    मुख्य आरोपी एवं गिरोह का मास्टरमाइंड शिशुपाल उर्फ राहुल गुर्जर गाडरवारा के पास सुपारी गांव का रहने वाला है  जिसके साथ पुलिस ने 9  लोगों को पकड़ा है   चोरों से 28 टू व्हीलर की बरामद की गई हैं  जिसकी कीमत  15 लाख बताई जा रही है  जब शातिर चोर से हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो उसने चोरी की घटनाओं के कई राज खोले    बाइक चोर ने पुलिस पूछताछ में बताया कि वह आस पास के इलाकों होशंगाबाद , नरसिंहपुर, छिन्दवाड़ा से वाहन चोरी कर गिरवी रख  भोले भाले लोगों को बेच दिया करता था जुएं,शराब की लत को पूरा करने के लिए 24  वर्षीय  राहुल चोरी की वारदातों को अंजाम दिया करता था चोर  अपनी मजबूरी बताकर लोगों को गाड़ियां बेच दिया करता था पुलिस के मुताबिक आरोपी से पूछताछ की जा रही है जिससे ओर भी कई बड़े खुलासे होने की उम्मीद जताई जा रही है  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

vande matram

  राष्ट्रीय  नेतृत्व तय करेगा प्रदेश अध्यक्ष हर महीने की पहली तारिख को होने वाले वंदे  मातरम गीत का सामूहिक  गायन बैंड बाजे के साथ  मंत्रालय  पर किया  गया इस मौके पर जनसम्पर्क मंत्री पी सी शर्मा सहित कई मंत्रालय के  वरिष्ठ अधिकारी और कर्मचारी मौजूद रहे कांग्रेस  राष्ट्रीय अध्यक्ष पद को लेकर पी सी शर्मा ने कहा की हम सब की मांग है की राहुल गांधी अध्यक्ष बने रहें प्रदेश अध्यक्ष का चुनाव राष्ट्रीय नेतृत्व करेगा हर महीने की पहली तारिख को होने वाले वंदे मातरम गीत का सामूहिक गायन मंत्रालय स्थित पार्क में किया गया इस मौके पर जनसमपर्क मंत्री पी सी शर्मा ने कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष को लेकर कहा की सभी की राय है की राहुल गांधी अध्यक्ष पद पर बने रहे चाहे विधायक हो , मंत्री हो या मुख्यमंत्री सभी यही चाहते हैं की राहुल गांधी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष बने रहे  नए प्रदेश अध्यक्ष को लेकर मंत्री पीसी शर्मा ने कहा की मुख्यमंत्री कमलनाथ प्रदेश अध्यक्ष पद से इस्तीफे की पेशकश कर चुके हैं | नए प्रदेश अध्यक्ष पर कांग्रेस का राष्ट्रीय नेतृत्व ही  निर्णय करेगा  जो भी अध्यक्ष पद पर होगा वो युवा और पार्टी को बढ़ाने का कार्य करेगा

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

abvp

दलालों से रहें दूर,प्रक्रिया में रखें विश्वास   रीवा में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने  शासकीय ठाकुर रणमत सिंह महाविद्यालय में छात्र सहायता शिविर का आयोजन किया आयोजन में छात्रों को प्रवेश प्रक्रिया में हो रही समस्याओं के निराकरण के लिए जानकारी दी गई शासकीय ठाकुर रणमत सिंह महाविद्यालय में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद द्वारा  छात्र सहायता शिविर का आयोजन किया गया  प्रदेश के सभी महाविद्यालयों में प्रवेश प्रक्रिया शुरू हो चुकी है और छात्रों की लंबी भीड़ प्रवेश पाने के लिए महाविद्यालयों में लगने लगी है वही प्रवेश प्रक्रिया में महाविद्यालय में बिचौलियों और दलालों का भी जमावड़ा लगने लगा है  दलाल  प्रवेश लेने आए छात्रों से पैसे लेकर उन्हें प्रवेश दिलाने की बात करते हैं इन्हीं सब समस्याओं से छात्रों को अवगत कराने और निजात दिलाने के लिए अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने सहायता शिविर का आयोजन किया विद्यार्थी परिषद् ने  छात्रों को प्रवेश प्रक्रिया से जुड़े सभी दस्तावेज की जानकारी दी  एवं  सही प्रवेश प्रक्रिया के बारे में भी समझाया   उन्हें यह भी बताया गया कि वह किसी भी प्रकार के दलालों के चंगुल में न फंसे और महाविद्यालय द्वारा प्रवेश प्रक्रिया में विश्वास रखे  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

hathkargha

कला , कौशल और रोजगार के अवसर बढ़ेंगे जनसम्पर्क मंत्री श्री पी सी शर्मा ने कहा हाथकरघा अभियान एक प्रभावशाली शुरुआत  है इससे कला , कौशल और रोजगार के अवसर बढ़ेंगे भोपाल के चौक स्थित श्री दिगम्बर जैन विधयालय  में  हथकरघा प्रशिक्षण केंद्र का शुभारंभ जनसम्पर्क मंत्री पीसी शर्मा ने  किया इस अवसर पर पीसी शर्मा ने कहा   कि ये  एक प्रभावशाली शुरुआत है और निश्चित ही इससे न केवल कला और कौशल में निखार आएगा  बल्कि रोजगार में भी वृद्धि होगी मंत्री श्री शर्मा ने महात्मा गांधी की 150वीं जन्मशती वर्ष के अवसर पर प्रारंभ इस कार्य की मुक्त कंठ से सराहना कीउन्होंने कहा कि प्रार्थना के पश्चात सूत कातना गांधी जी की दिनचर्या में सम्मिलित था | दिगंबर जैन स्कूल में हथकरघा प्रशिक्षण केंद्र की रूपरेखा पर प्रकाश डालते हुए ब्रह्मचारी अमित  ने बताया कि यह कार्य आचार्य 108 श्री विद्यासागर जी महाराज की प्रेरणा से प्रारंभ किया गया है इसे प्रदेश के सभी दिगंबर स्कूलों  में संचालित किया जाएगा विद्यालय में कक्षा 9 से  बारहवीं कक्षा के  विद्यार्थियों को पढ़ाई के अतिरिक्त एक पीरियड के द्वारा प्रशिक्षित किया जाएगा मंत्री शर्मा ने कार्य की सराहना करते हुए कहा कि आचार्य श्री की प्रेरणा से अभी सागर की केंद्रीय जेल में प्रशिक्षण कार्य चल रहा है शीघ्र ही इसे भोपाल केद्रीय जेल में भी प्रारंभ कराने का कार्य किया जाएगा  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

shav

  छतरपुर में  बघारी रेत खादान पर एक युवक की संदिग्ध हालत मे मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई  आशंका जताई जा रही है  कि  रूपये के लेन देन को लेकर  युवक की हत्या की गई है पुलिस ने मामला दर्ज कर शव को  पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया   छतरपुर के चंदला थाने के बघारी रेत खादान पर एक युवक की संदिग्ध हालत मे शव मिलने से लोगों में हड़कंप मच गयाबताया जा रहा है की  बीती रात सतीश खगार रूपये के लेन देन पर बघारी रेत खादान आया था  और अपने एक साथी के साथ रात मे उसके घर रूक गया सुबह जब सतीश के साथी ने उससे देखा तो वह अचेत अवस्था मे जमीन पर पड़ा उसके कान से खून निकल रहा था    युवक की मौत की सूचना पुलिस को मिलते ही  पुलिस ने तत्काल मौके पर पहुंचकर  युवक का पंचनामा कर  शव पोस्टमार्टम को भेज दिया  आशंका जताई जा रही है की  कि बघारी रेत खादान पर रूपये के लेन देन पर युवक की हत्या की गई है पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर मौत का खुलासा होने की बात कही जा रही है

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

aakash vijayvargiye

5 गोलियां चलने से क्षेत्र में सनसनी भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के बेटे और भाजपा विधायक आकाश विजयवर्गीय को निगम अधिकारी की पिटाई मामले में  जमानत मिलने के बाद भाजपा समर्थकों ने. शाम नेहरू स्टेडियम के सामने स्थित विधायक कार्यलय पर हवाई फायर किये  कार्यालय के बाहर पांच फायर किए गए निगम अधिकारी की पिटाई मामले में  आकाश विजयवर्गीय को जमानत मिलने के बाद विधायक समर्थकों का उत्साह इस कदर था की समर्थकों ने विधायक कार्यालय के सामने हवाई फायर किये आकाश समर्थकों ने  कार्यालय के बाहर पांच फायर किए गए जिससे क्षेत्र में सनसनी फैल गई   विधायक को  जमानत मिलने  के बाद  समर्थकों  की खुशी सिर  चढ़कर बोली समर्थकों ने  एक के बाद एक पांच गोलियां चलाई गोलियों की आवाज क्षेत्र में गूंज गई जिसके साथ ही गोली चलने से निकलने वाला धुआं भी आसमां की ओर बढ़ता हुआ नजर आया 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

kamlnath

  सामान्य वर्ग का 10%आरक्षण प्रस्ताव पारित  मॉब लिन्चिंग पर सजा तो बार लाइसेंस में बदलाव   मुख्‍यमंत्री कमलनाथ की अध्‍यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक में सामन्य वर्ग को 10 प्रतिशत आरक्षण दिए जाने  को हरी झंडी देने के साथ साथ कई और महत्वपूर्ण मुद्दों  पर चर्चा की गई मंत्री पीसी शर्मा  ने  कैबिनेट में लिए गए फैसलों की जानकारी देते हुए बताय की मॉब लिंचिंग  के मामले में जिम्‍मेदारों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी मुख्‍यमंत्री कमलनाथ की अध्‍यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक में सामान्य वर्ग को 10 प्रतिशत आरक्षण देने के  प्रस्‍ताव को हरी झंडी दे दी गई  आरक्षण को  निर्धारित करते हुए कहा गया की  जिसकी आय 8 लाख से कम होगी उनको आरक्षण का लाभ दिया जायेगा  कैबिनेट मंत्री पी सी शर्मा ने बताया की  मॉब लिंचिंग के मामले में जिम्‍मेदारों पर कार्रवाई की जाएगी इसमें 3 साल तक की सजा का प्रावधान किया गया है इंदौर और भोपाल में मेट्रो चलाने के प्रस्‍ताव के साथ ही बैठक में अन्‍य महत्‍वपूर्ण प्रस्‍तावों पर भी चर्चा की गई  बैठक में बताया गया कि इंदौर मेट्रो में 7500 करोड़ और भोपाल मेट्रो पर 6900 करोड़ की लागत प्रस्‍तावित की गई है  | बैठक में  फैसला लिया गया की   राज्‍य में  निजी पशु चिकित्‍सा महाविद्यालय खोले जायेंगे  विधि विभाग कोर्ट फीस में इजाफा करने के प्रस्‍ताव को भी स्‍वीकृति दे दी गई   बार लाइसेंस में बदलाव करते हुए  इसमें कमरों की संख्‍या दस से बढ़ाकर 25 कर दी  गई  है |

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

govind singh

तहसीलदारों ने मंत्री के खिलाफ मोर्चा खोला  राजस्व मंत्री  गोविंद सिंह राजपूत ने सीहोर तहसील का अचानक  निरीक्षण किया यहाँ राजस्व मंत्री न केवल राजस्व न्यायालय की गरिमा के विरूद्ध तहसीलदार की डायस पर बैठे, बल्कि यहीं से लापरवाही के आरोप लगाते हुए तहसीलदार सुधीर कुशवाह को सस्पेंड किया राजस्व मंत्री गोविंद सिंह राजपूत और उनके ओएसडी कमल नागर के इस रवैए को लेकर मध्यप्रदेश राजस्व अधिकारी संघ काफी नाराज है | अब संघ के लोग अलग अलग जगह मंत्री गोविन्द सिंह के बर्ताव की शिकायत कर रहे हैं | राजस्व अधिकारी संघ का आरोप है कि राजस्व मंत्री गोविंद सिंह राजपूत सत्ता के नशे में मंगलवार को सीहोर में राजस्व न्यायालय की गरिमा भूल गए इसमें सबसे खास बात यह रही कि उनके ओएसडी कमल नागर ने भी न्यायालय के सम्मान को बचाने का प्रयास नहीं किया, जबकि नागर राज्य प्रशासनिक सेवा के अफसर हैं |अब इस मामले में राजस्व अधिकारी संघ ने राजस्व मंत्री राजपूत के साथ उनके ओएसडी कमल नागर को भी घेरना शुरू कर दिया है  | बुधवार को प्रभारी मंत्री आरिफ अकील को भोपाल में इस सिलसिले में ज्ञापन दिया गया | राजस्व अधिकारी संघ ने बताया कि 25 जून को राजस्व मंत्री द्वारा अपने सहयोगियों के साथ तहसील सीहोर में तहसीलदार न्यायालय का औचक निरक्षण किया | निरीक्षण के दौरान न्यायालय की गरिमा के विपरीत तहसीलदार न्यायालय के डायस पर स्वत: बैठ गए एवं अन्य अनाधिकृत, गैर न्यायायिक अधिकारी एवं अन्य व्यक्ति भी न्यायालय के डायस पर बैठकर राजस्व न्यायालय की गरिमा को आहत किया है | सार्वजनिक तौर पर राजस्व मंत्री ने तहसीलदार पद को भ्रष्ट कहा  यह तहसीलदार संस्था के सम्मान, स्वाभिमान और गरिमा पर गंभीर आघात है | विधि द्वारा सु-स्थापित न्यायालय के डेकोरम को भंग करने की सम्पूर्ण गतिविधि सार्वजनिक हो चुकी है  जिससे स्पष्ट है कि न्यायालय का अस्तित्व विभाग के मंत्री द्वारा ही समाप्त किया जा रहा है  इधर राजस्व मंत्री गोविन्द सिंह खुद की कार्यवाही को ठीक बता रहे हैं इस बीच सीहोर कलेक्टर अजय गुप्ता ने प्रदेश के राजस्व मंत्री गोविन्द राजपूत के इस आदेश को मानने से साफ इंकार कर दिया है कि सीहोर के तहसीलदार सुधीर कुशवाह भ्रष्ट हैं, इसलिए उन्हें निलंबित करने का प्रस्ताव भेजा जाए | कलेक्टर का कहना है कि तहसीलदार को निलंबित करने का अधिकार राज्य शासन को है | मंत्री जी चाहें तो इस संबंध में प्रमुख सचिव राजस्व को कार्यवाही के लिए लिख सकते हैं | राजस्व अधिकारी संघ ने तहसीलदार के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई होते ही अनिश्चित कालीन हड़ताल पर जाने की घोषणा की है |  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

wagter to right

  कॉन्ट्रैक्टर से नहीं जन भागीदारी से करें    जल अधिकार अधिनियम को  लेकर भोपाल में  कार्यशाला का आयोजन किया गया  | कार्यशाला में जल संरक्षण को लेकर विशेषज्ञों ने अपने अनुभव और राय को प्रेजेंटेशन के माध्यम से सामने रखा जल पुरुष नाम से मशहूर राजेंद्र सिंह ने सरकार की तारीफ करते हुए कहा की सरकार का यह यह शराहनीय  कदम है और इसको कॉन्ट्रैक्टर के बजाय  जन भागीदारी से किया जाना चाहिए मध्यप्रदेश में जल अधिकार अधिनियम बनाने की कवायद शुरू हो गयी है | भोपाल में जल अधिकार अधिनियम को लेकर एक कार्यशाला का आयोजन किया गया  | कार्यशाला का शुभारम्भ करते हुए   पी एच ई मंत्री सुखदेव पांसे  ने कहा  की पानी सबका मौलिक अधिकार है | मध्यप्रदेश पहला राज्य है जहाँ राइट टू वाटर कानून बनने जा रहा है | कार्यशाला में आये विभिन्न राज्यों से विशेषज्ञों ने पाने के सरंक्षण हेतु अपनी राय दी  | जल पुरुष नाम से मशहूर राजेंद्र सिंह ने पानी को बचाने एवं संरक्षण हेतु सुझाव दिए | साथ ही कहा की जल अधिकार सरकार की बहोत अच्छी सोच है  | जल संरक्षण हेतु जो भी कार्य किये जाएँ वो जन भागीदारी से होने चाहिए| इस योजना को कॉन्ट्रैक्टर से दूर रखा जाए  क्यूंकि जहाँ कॉन्ट्रैक्ट रहेगा वहां लाभ के बारे में सोचा जायेगा और प्रोजेक्ट को सफलता नहीं मिलेगी  | राजेंद्र सिंह ने महाराष्ट्र , राजस्थान सहित कई राज्यों के अपने अनुभव साझा किये |

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

tarun bhanot

  बजट को लेकर नाथ-भनोट की चर्चा  मध्यप्रदेश के बजट को लेकर मुख्यमंत्री कमलनाथ और वित्त मंत्री तरुण भनोट के बीच लम्बी मंत्रणा हुई तरुण भनोट ने कहा कि इस साल कोई नया कर नहीं लगाया जाएगा | मध्यप्रदेश के बजट को लेकर सीएम कमलनाथ और वित्त मंत्री तरुण भनोट और  अधिकारियों की बैठक हुई बैठक के बाद वित्त मंत्री तरुण भनोट ने कहा कि इस साल कोई नया कर नही लगाया जाएगा | नया कर लगाया भी गया तो आम जनता को असर न हो ऐसी जगह कर लगाएंगे। बजट में किसानों   लोअर मिडल क्लास और हर वर्ग का ध्यान रखा जाएगा | उन्होंने कहा  हम खजाने को भी मैनेज  करेंगे और किसानों का भी कर्जा माफ करेंगे  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

370

    पंडित नेहरू ने ये धारा लगाई थी भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने  एक बड़ा बयान दिया है | उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाई जाएगी   धरा 370 को लेकर देश में इस समय जोरदार बहस चल रह है बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय भारतीय जनसंघ के संस्थापक डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी की 66वीं पुण्यतिथि पर विजयनगर चौराहे पर उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण करने पहुंचे थे | विजयवर्गीय ने कहा कि डॉ. मुखर्जी की जम्मू कश्मीर में संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हुई थी | श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने कहा था कि जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाई जानी चाहिए, ये अलगाववादी धारा है | पंडित जवाहर लाल नेहरू ने ये धारा लगाई थी, लेकिन अब केंद्र की भाजपा सरकार इसे हटाएगी उधर, विजयवर्गीय के बयान पर पलटवार करते हुए प्रदेश के शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने कहा कि कश्मीर से धारा 370 हटाने के नाम पर भाजपा ने वोट मांगे, अब उसे यह धारा हटानी चाहिए

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

nimach jail

रस्सी के सहारे जेल से भागे कैदी  मध्यप्रदेश के नीमच में जिला जेल कनावटी से चार बंदी भाग गए  | जेल प्रशासन और पुलिस ने बंदियों की तलाश शुरू कर दी है |  चारों बंदी गंभीर अपराधों में जिला जेल में बंद थे | नीमच जेल से चार गंभीर अपराधी भाग गए | इन्हें पकड़ने  के लिए पुलिस ने जिलेभर में नाकेबंदी कर दी है | इनमें से एक हत्या, एक बलात्कार और दो नशीले पदार्थों के कारोबार के आरोप में जेल में बंद थे  | पुलिस ने सूचना मिलते ही अलर्ट जारी किया है  | पुलिस ने बताया कि रस्सी के सहारे जेल की दीवार फांद कर यह चारों कैदी भागे हैं | इन भगौड़े कैदियों में उदयपुर का नारसिंह  एनडीपीएस में 10 साल की सजा काट रहा था     मंडला का दुबे लाल धुर्वे  बलात्कार के मामले में 10 वर्ष की सजा काट रहा था  | इन दोनों अपराधियों के साथ  एनडीपीएस एक्ट में जेल में बंद चितौड़ का पंकज मोंगिया और मल्हारगढ़ का लेख राम भी जेल से भागे हैं |

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

jhabua

चौकी प्रभारी ने लगाई फांसी  झाबुआ के झकनावदा पुलिस चौकी प्रभारी भागीरथ बघेल ने पुलिस चौकी के पास बने कवार्टर मे फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली  ... बघेल ने ऐसा क्यों किया इस बात का खुलासा अभी नहीं हुआ   झाबुआ के पेटलावद तहसील के झकनावदा में चौकी प्रभारी ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली  ... बताया जा रहा है कि प्रभारी भागीरथ बघेल चौकी के पास ही बने अपने क्वार्टर में रहते थे और यहीं उन्होंने खुदकुशी कर ली  ... अभी खुलासा नहीं हो पाया है कि बघेल ने यह कदम क्यों उठाया   ... इस घटना के बाद बड़े अधिकारी मौके पर पहुंचे और घटना स्थल का निरिक्षण किया  ... 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

indore

  परिवार की मर्जी के खिलाफ की थीशादी मध्‍यप्रदेश के इंदौर जिले में ऑनर किलिंग का मामला सामने आया है | बेटमा के पास रावद गांव में एक भाई ने अपनी बहन को मौत के घाट उतार दिया |  बहन ने परिवार की मर्जी के खिलाफ एक युवक से शादी की थी | एक भाई ने अपनी बहन की गोली मारकर हत्‍या कर दी | गोली मारने के बाद भाई  ने थाने पहुंच कर खुद को पुलिस के हवाले कर दिया |  आरोपी भाई  नाबालिग है | यह घटना रावद की है | युवती को इलाज के लिए पहले इंदौर के एम वाय अस्‍पताल में भर्ती कराया गया था जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई | देपालपुर एसडीओपी आर के राय के अनुसार रावद निवासी आरोपी की बड़ी बहन बुलबुल ने लगभग 6 माह पहले गांव के ही कुलदीप राजावत से प्रेम विवाह किया था | वह उसी के साथ पीथमपुर में रह रही थी | आज वह अपने पति के साथ अपने ससुराल मिलने हेतु आई थी  | इसी दौरान भाई ने उसके ससुराल पहुंचकर घर के पीछे आंगन में बैठी बहन के सिर में गोली मार दी और वहां से थाने आ पहुंचा |  पुलिस मामले की जांच कर रही है |  बड़ी बहन द्वारा राजपूत समाज के लड़के से लव मैरिज कर लेने से छोटा भाई काफी व्यथित और नाराज था और उसने इसे परिवार की इज्जत से जोड़ लिया था |  बहन के आने की भनक लगते ही नाबालिग भाई बहन के ससुराल पहुंच गया और घर के पीछे आंगन में बैठी बहन बुलबुल के सिर में गोली मार दी |  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

CBI

CBI को कुछ आरोपियों पर है संदेह  मध्य प्रदेश के व्यावसायिक परीक्षा मंडल  घोटाले की जांच कर रहे केंद्रीय जांच ब्यूरो  ने आठ पुराने मामलों को फिर से खोला है | इनमें से पांच मामले अकेले पीएमटी से संबंधित हैं तीन प्रकरण पुलिस आरक्षक, परिवहन आरक्षक और वनरक्षक भर्ती परीक्षाओं के हैं | हालांकि इन पुराने मामलों में पूरे प्रकरणों को फिर से नहीं खोला जा रहा, बल्कि कुछ आरोपियों  को लेकर जांच शुरू की जा रही है |परिवहन आरक्षक में सभी नए नाम हैं, जिनकी जांच एक बार फिर खोली जा रही है | सीबीआई ने आठ पुराने प्रकरणों को दोबारा खोलकर उनकी जांच शुरू कर दी है | इनमें पीएमटी 2009 और 2012 के दो-दो, पीएमटी 2013, वनरक्षक भर्ती 2013, पुलिस आरक्षक भर्ती 2012 और परिवहन आरक्षक भर्ती 2012 के मामले हैं | पीएमटी 2012 और पीएमटी 2013 के मामले इंजन-बोगी वाले परीक्षार्थियों व मूल आवेदक के हैं | वहीं पीएमटी 2012 के जो मामले दोबारा जांच में लिए गए हैं, उनमें अंकों की हेराफेरी और धोखाधड़ी के केस भी हैं | जिन प्रकरणों को सीबीआई ने जांच के लिए दोबारा खोला है, उनमें पीएमटी 2013 के मामले में चिरायु, पीपुल्स, इंडेक्स और एलएन मेडिकल कॉलेजों के संचालक भी आरोपी हैं | इसी तरह पीएमटी 2012 के मामले में पंकज त्रिवेदी, नितिन मोहिंद्रा, अजय कुमार सेन जैसे व्यापमं के तत्कालीन अधिकारी आरोपी हैं | सीबीआई के पास अभी व्यापमं के 11 मामलों की जांच और लंबित है |

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

quran

विशेष प्रकार के लेंस से पढ़ी जाती है कुरान     रीवा के  मन्नान मस्जिद  में दुनिया की सबसे छोटी कुरान शरीफ का पता चला है , जिसकी लम्बाई एक इंच और मोटाई आधा इंच बताई जा रही है , कुरान शरीफ विशेष प्रकर के चमड़े की जिल्द के अंदर रखी है | छह सौ  साल पुरानी  सोने की स्याही से हस्तलिखित इस कुरान शरीफ में पूरे 30 पारे हैं , इसे पढ़ने के लिए विशेष प्रकार के  लेंस की आवश्यकता होती है |   भारत सहित मुस्लिम देशो में पढ़ी जाने वाली पवित्र कुरान कई साइजों में मिलती है | आज हम आपको दुनिया की सबसे छोटी कुरान शरीफ दिखाने जा रहें हैं | रीवा में एक विशेष प्रकार के जिल्द में रखी कुरान  मिली है जिसकी लम्बाई एक इंच और मोटाई आधा इंच बताई जा रही है | छह सौ  साल पुरानी सोने की स्याही से हस्तलिखित इस कुरआन में 30 पारे है | कवर पेज पर रखे  विशेष प्रकार के लेंस से इसे पढ़ा जाता है | रीवा में स्थित इस कुरान को लोग बताते है कि इससे छोटी कुरान कही देखने व पढ़ने को नही मिली हाजी मन्नान परिवार मे मन्नान मस्जिद मे रखी इस कुरान शरीफ के मालिक का कहना है की हमारे पास यह लगभग आठ पीढ़ियो से है | इसे हम कुछ विशेष मौको पर ही बाहर निकालते है | रमजान के महीने में इसे खासतौर से निकाला जाता है | सात पीढ़ीयो से सहेज कर रखी पूरी दुनिया मे  इस दुर्लभ कुरान शरीफ को ,  रमजान जैसे इबादत के महीने मे देखना एक बड़ी इबादत है |

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

priyvrat singh

  बिजली कटौती पर प्रियव्रत सिंह की सफाई    मध्यप्रदेश में बिजली की लुका छिपी के बीच ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह ने सफाई दी , उन्होंने कहा बिजली की कहीं कोई कमी नहीं है | फॉल्ट के कारण लाइट जा रही है |  उन्होंने कहा कि बीजेपी प्रजातंत्र का मजाक बना रही है | एमपी बिजली संकट से जूझ रहा है |  मुख्यमंत्री कमलनाथ अधिकारीयों पर दबाव बना रहे हैं कि लाइट न जाए  और बीजेपी कह रही है कांग्रेस आई और बिजली गई | भीषण गर्मी में बिजली से लोग परेशान हैं | सरकार को कुछ सूझ नहीं रहा है | ऐसे में बीजेपी का कांग्रेस सरकार पर हमलावर होना लाजिमी है | इस बीच ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह का बयान सामने आया उन्होंने कहा बीजेपी शुरू से ही प्रजा तंत्र का मजाक बना रही है |मुद्दे है नही तो अघोषित बिजली कटौती की बात कर झूठ फैला रही है | अब जब फाल्ट के चलते बिजली गायब हो जाती है तो उसको कम करने का काम हमारा है | पुराने भोपाल में कबूतरों के कारण तार में फाल्ट हो जाता है |  जिसके कारण बिजली अत्यधिक जा रही थी ,,इंदौर में आग लगने के कारण वहा का सिस्टम बैठ गया | तार टूट गए अब इन कारणों को अघोषित बिजली कटौती नही कहते | मंत्री प्रियव्रत का साफ़ कहना है फॉल्ट के चलते बिजली जा रही है |  जिसको बीजेपी अघोषित कटौती  के नाम पर बदनाम कर रही है | उनका कहना है जहाँ एडवांस टेक्नालॉजी के सिस्टम की आवश्यकता है | वहाँ उसे जल्द लगाकर बिजली सप्लाई और फाल्ट व्यवस्था और ट्रिप सिस्टम को सुधारने का प्रयास किया जा रहा है|

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

computer baba

सरकार नर्मदा और नदियों के लिए संकल्पित कंप्यूटर बाबा ने कहा  माँ  नर्मदा और अन्यं नदियां  कैसे बचें  इसके लिए कमलनाथ सरकार संकल्पित है | उन्होंने कहा अब नर्मदा नदी में अवैध खनन नहीं होने देंगे  अपने कामों और बयानों से चर्चा में रहने वाले कंप्यूटर बाबा का कहना है कमलनाथ सरकार नर्मदा नदी को बचने के लिए संकल्पित है | उन्होंने कहा नर्मदा की आस्था बची  रहे इस के लिए पेड़ लगाना ओर परिक्रमा वासियों को सुविधा हो इसके लिए न्यास काम करेगाजल्दी ही नर्मदा युवा सेना का गठन किया जाएगाऔर नर्मदा में अवैध खनन नही होने दिया जाएगाबाबा ने नर्मदा के लिए एक टोल फ्री नंबर जारी किया और कहा सभी दल दलगत राजनीति से ऊपर उठें और नर्मदा के लिए काम करें  |

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

prhalad patel-modi

    नरसिंहपुर। केंद्रीय पर्यटन एवं संस्कृति मंत्रालय के राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार प्रहलाद पटेल अपने गृह नगर गोटेगांव पहुंचे। यहां सभी ने उनका जमकर स्वागत किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुझे जो जिम्मेदारी सौपी है, उसे मैं पूरा करूंगा। उन्होंने यह भी कहा कि हम हर काम तय समय से पहले पूरा करेंगे। पर्यटन मंत्रालय में काम करने की खूब गुंजाइश है। मंत्री पटेल ने कहा कि पहले में मंत्रालय को समझ लूं, इसके बाद यह आश्वस्त करता हूं कि बेहतर से बेहतर कार्य होगा। उन्होंने कहा कि नर्मदा नदी पर बसे स्थलों पर पर्यटन को बढ़ावा देने के साथ डुमना नेचर पार्क के लिए भी काम किया जाएगा।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

रेत खदान पर छापा

    होशंगाबाद। जिला मुख्यालय से करीब 12 कि मी दूर ग्राम जावली की रेत खदान पर प्रशासनिक टीम ने शनिवार सुबह 5 बजे छापा मारा। जिसमें 50 डंपर, दो पोकलेन और एक जेसीबी जब्त की गई। इतनी बड़ी कार्रवाई में एक भी व्यक्ति गिरफ्त में नहीं आया। पिछले साल बंद हो चुकी इस रेत खदान पर रेत माफिया अवैध रेत खनन कर रहे थे। लगातार शिकायतों के मद्देनजर एसडीएम आरएस बघेल के साथ प्रशासन, खनिज और पुलिस टीम ने सुबह 5 बजे छापा मारा। टीम को देखकर रेत खनन में जुटे लोग अपने वाहन छोड़कर भागने लगे। अधिकारी-कर्मचारियों ने पीछा भी किया, लेकिन कोई पकड़ में नहीं आया। एसडीएम बघेल के मुताबिक कलेक्टर शीलेंद्र सिंह के निर्देश पर यह कार्रवाई की गई है। मौके से 50 डंपर, एक जेसीबी और दो पोकलेन मशीन जब्त की है। इनमें से कु छ वाहनों को माखननगर थाने और कुछ वाहनों को होशंगाबाद देहात थाने में रखा गया है। उन्होंने बताया कि सभी के खिलाफ प्रकरण बनाकर कलेक्टर न्यायालय में प्रस्तुत किए जाएंगे। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

kamal nath

भोपाल। मध्‍यप्रदेश में राइट टू वाटर योजना लागू की जाएगी। इसके तहत राज्‍य के हर नागरिक को पानी मुहैया करवाने का लक्ष्‍य रखा गया है। मुख्‍यमंत्री कमलनाथ ने शुक्रवार को नगरीय विकास एवं आवास विभाग और लोक स्‍वास्‍थ्‍य यांत्रिकी विभाग की समीक्षा बैठक में इस संबंध में निर्देश दिए। मुख्‍यमंत्री ने इसके प्रभावी क्रियान्‍वयन के लिए एक कार्ययोजना बनाने के निर्देश भी दिए हैं। राइट टू वाटर में हर नागरिक को पानी का अधिकार होगा। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अधिकारियों को राइट टू वाटर एक्ट तैयार करने के निर्देश दिए हैं। इसके तहत मध्य प्रदेश के लोगों को मिनिमम पेयजल की उपलब्धता का अधिकार दिया जाएगा । एक्ट को मध्यप्रदेश विधानसभा में प्रस्तुत किया जाएगा । उसके बाद यह लागू होगा। एक्ट में अधिकार देने को लेकर किस तरह के प्रावधान होंगे यह नगरीय विकास विभाग अभी तय करेगा। संभावना है कि इस योजना के तहत मध्‍य प्रदेश के हर नागरिक को प्रति व्यक्ति 55 लीटर पानी का अधिकार दिया जाएगा अर्थात प्रत्‍येक व्यक्ति को कम से कम 55 लीटर पानी अवश्‍य मिलेगा। उल्‍लेखनीय है कि प्रदेश के अधिकांश हिस्‍से भीषण पेजयल संकट से जूझ रहे हैं। खासकर ग्रामीण अंचलों में लोगों को पानी जुटाने के लिए खासी मशक्‍कत करनी पड़ रही है। वहीं शहरी क्षेत्रों में भी पानी का परिवहन किया जा रहा है। बताया जा रहा है कि सरकार पूरे प्रदेश में पानी के एटीएम भी लगा सकती है। ये बैंक एटीएम की तर्ज पर होंगे। जिस तरह अभी पैसे निकालने के लिए जगह-जगह बैंक एटीएम लगे हैं, ठीक उसी तरह ये पानी के एटीएम होंगे। एटीएम में पानी स्टोर करने की व्यवस्था नहीं होगी। ये उस जगह लगाए जाएंगे जहां पास में पानी की पाइप लाइन या फिर पानी का कोई स्रोत हो। इसकी शुरुआत उन इलाकों से होगी जहां पानी की बेहद दिक्कत है। राज्य के लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री सुखदेव पांसे के अनुसार राज्य सरकार के पानी का अधिकार कानून के अंतर्गत पूरे साल एक परिवार को आवश्‍यकता के अनुसार पानी की उपलब्धता रहेगी। राज्य सरकार की मंशा है कि हर घर तक नल का पानी पहुंचे। इसके लिए नल-जल योजना भी बनाई जाएगी ।उल्‍लेखनीय है कि देश के नागरिकों को पानी की सुविधा उपलब्ध कराए जाने के मामले में मध्यप्रदेश 17वें स्थान पर है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

MP

  गर्मी के कहर के बीच मंदसौर, नीमच और रतलाम जिले में शनिवार को मौसम ने करवट बदली। आंधी के साथ कई जगह तेज बारिश हुई। इससे पेड़, बिजली के खंभे और घरों के छप्पर धराशायी हो गए। नीमच और मंदसौर में खुले में रखी किसानों की उपज भी भीग गई। नीमच में बारिश के साथ ओले भी गिरे। ईदगाह रोड पर बरगद का पेड़ गिरने से तीन मकानों को नुकसान पहुंचा है। रतनगढ़ थाना क्षेत्र के ग्राम महेंद्री में बिजली गिरने से सात वर्षीय विष्णु पिता मदन की मौत हो गई। पिपलियामंडी में नाराज किसानों ने शेड में रखी व्यापारियों की उपज फेंक दी। रतलाम जिले के आलोट में एक घंटा तेज बारिश हुई। मंदसौर में 10 से अधिक जगह पर पेड़ धराशायी हो गए। महू-नीमच मार्ग पर होटल डायमंड के सामने पेड़ गिरने से यातायात बाधित हुआ। खानपुरा स्थित शनि मंदिर में सोमवार को होने वाले भंडारे के लिए लगा टेंट भी उड़ गया। नौतपा के आठवें दिन शनिवार दोपहर साढ़े तीन बजे जिले के आलोट क्षेत्र में करीब एक घंटा जोरदार बारिश हुई। इससे सड़कें तरबतर हो गईं। कई स्थानों पर टेंट उखड़ने की भी खबरें हैं। रतलाम में शाम करीब 4.50 बजे अचानक धूलभरी तेज हवाएं चलने से बिजली गुल गई। मध्य प्रदेश के ज्यादातर जिलों में भीषण गर्मी पड़ रही है। पचमढ़ी को छोड़ दें तो प्रदेश के लगभग सभी बड़े शहरों में पारा 42 डिग्री के पार चल रहा है। उस पर से गर्म हवाओं के थपेड़ों ने भी लोगों का जीना मुहाल कर दिया है। इस सबके बीच जरूर आसमान से बरस रही आग से थोड़ी राहत मिली । दोपहर आधे घंटे तक ओलों के साथ तेज बरसात हुई है। जिससे लोगों ने राहत की सांस ली है। नीमच के साथ ही मंदसौर जिले में भी आंधी तूफान के साथ बारिश हुई है। इससे कई पेड़ गिर गए वहीं मंडी में रखा अनाज गीला हो गया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

tabadla nath

    भोपाल में मुख्यमंत्री कमल नाथ को एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक के मैनेजिंग डायरेक्टर और सी.ई.ओ.  संजय अग्रवाल ने मुख्यमंत्री सहायता कोष के लिए 10 लाख रूपये का चेक भेंट किया। मुख्यमंत्री श्री नाथ को श्री अग्रवाल ने बताया कि एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक ने पिछले 21 माह में 2 हजार युवाओं को रोजगार उपलब्ध करवाया है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

imarti devi

  महिला बाल विकास मंत्री श्रीमती इमरती देवी ने आज सुबह अंकुर स्कूल स्थित आँगनवाड़ी केन्द्र का आकस्मिक निरीक्षण किया। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि सभी आँगनवाड़ियों में बिजली और पानी की व्यवस्थाएँ सुनिश्चित करें। अगर कहीं परेशानी आ रही हो, तो वे स्वयं ऊर्जा मंत्री से इस संबंध में चर्चा करेंगी। श्रीमती इमरती देवी ने कहा कि शासन द्वारा बालिकाओं में स्वच्छता की आदत को बढ़ावा देने की योजना को मूर्तरूप दिया जा रहा है। इस योजना में आँगनवाड़ी से सम्बद्ध 12 वर्ष से अधिक उम्र की बच्चियों को दो वर्ष के लिए नि:शुल्क सेनटरी नेपकिन दिया जायेगा। महिला बाल विकास मंत्री ने आँगनवाड़ी में उपस्थित लगभग 82 बच्चों, दस दात्री महिलाओं तथा 6 गर्भवती महिलाओं से सीधा संवाद किया और मंगल दिवस, मातृ वंदना योजना तथा आँगनवाड़ियों में दिये जा रहे भोजन आदि के संबंध में जानकारी प्राप्त की। श्रीमती इमरती देवी ने बच्चों को चॉकलेट और बिस्कुट भी वितरित किये।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

kamlnath

  मुख्यमंत्री  कमल नाथ गणतंत्र दिवस 26 जनवरी को छिन्दवाड़ा जिला मुख्यालय में राष्ट्र ध्वज फहरायेंगे और आमजन को संबोधित करेंगे। मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ परेड की सलामी भी लेंगे। राज्य शासन ने प्रदेश के विभिन्न जिला मुख्यालयों पर राष्ट्र ध्वज फहराने और जिला स्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह के लिये मंत्रीगण को जिले निर्धारित कर आवंटित किये हैं। मध्यप्रदेश विधानसभा के अध्यक्ष श्री नर्मदा प्रसाद प्रजापति नरसिंहपुर में और मध्यप्रदेश विधानसभा की उपाध्यक्ष सुश्री हिना लिखिराम काँवरे बालाघाट में ध्वजारोहण करेंगी। सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा आज जारी आदेश के अनुसार मंत्री डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ खरगोन जिला मुख्यालय पर, श्री सज्जन सिंह वर्मा देवास, श्री हुकुम सिंह कराड़ा शाजापुर, डॉ. गोविन्द सिंह भिण्ड, श्री बाला बच्चन बड़वानी, श्री आरिफ अकील सीहोर, श्री बृजेन्द्र सिंह राठौर टीकमगढ़, श्री प्रदीप जायसवाल सिवनी, श्री लाखन सिंह यादव मुरैना, श्री तुलसीराम सिलावट खंडवा, श्री गोविन्द सिंह राजपूत सागर, श्रीमती इमरती देवी ग्वालियर, श्री ओमकार सिंह मरकाम डिण्डोरी, डॉ. प्रभुराम चौधरी रायसेन, श्री प्रियव्रत सिंह राजगढ़, श्री सुखदेव पांसे बैतूल, श्री उमंग सिंघार धार, श्री हर्ष यादव विदिशा, श्री जयवर्धन सिंह गुना, श्री जीतू पटवारी इंदौर, श्री कमलेश्वर पटेल सीधी, श्री लखन घनघोरिया जबलपुर, श्री महेन्द्र सिंह सिसोदिया अशोकनगर, श्री पी.सी. शर्मा होशंगाबाद, श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर शिवपुरी, श्री सचिन सुभाष यादव रतलाम, श्री सुरेन्द्र सिंह हनी बघेल झाबुआ और श्री तरूण भनोत मंडला जिला मुख्यालय पर ध्वजारोहण करेंगे। जिन 20 जिला मुख्यालय पर जिला कलेक्टर ध्वजारोहण करेंगे उनमें श्योपुर, दतिया, आगर-मालवा, मंदसौर, नीमच, अलीराजपुर, बुरहानपुर, हरदा, दमोह, पन्ना, छतरपुर, कटनी, रीवा, शहडोल, अनूपपुर, उज्जैन, उमरिया, सिंगरौली, सतना और निवाड़ी शामिल हैं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

kamlnath

    मुख्यमंत्री  कमल नाथ से सिंबायोसिस स्किल यूनिवर्सिटी की प्रोचांसलर सुश्री स्वाति मजूमदार ने आज मंत्रालय में सौजन्य भेंट की। मुख्यमंत्री श्री नाथ को सुश्री मजूमदार ने स्मृति चिन्ह और वर्ष 2019 का कैलेंडर भेंट किया।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

kamlnath

  मुख्यमंत्री  कमल नाथ से भारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रदेश कॉडर के वर्ष 2017 के प्रोबेशनर अधिकारियों ने आज मंत्रालय में सौजन्य भेंट की। इस अवसर पर महानिदेशक प्रशासन अकादमी श्री ए. पी. श्रीवास्तव भी मौजूद थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

kamalnath

  कमलनाथ सरकार के मंत्रियों के शपथ ग्रहण समारोह के बाद भोपाल में प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में पहली अनौपचारिक बैठक हुई। बैठक में मंत्रियों ने मुख्यमंत्री कमलनाथ से कहा कि बिजली बिल की वसूली में अधिकारी मनमानी कर रहे हैं। इस पर तत्काल रोक लगाई जाए। सूत्रों के मुताबिक, अनौपचारिक कैबिनेट बैठक में मंत्रियों ने कहा कि बिजली कंपनियां किसानों को नोटिस दे रही हैं। जब्ती बना रही हैं। इससे किसान परेशान हो रहे हैं। इसके साथ ही मंत्रियों ने कर्ज माफी को लेकर भी चर्चा की। उन्होंने कहा कि पार्टी ने इतना बड़ा फैसला लिया है तो इसे किसानों तक पहुंचाना चाहिए कि कांग्रेस ने कर्ज से मुक्ति दिलाई है। मंत्रियों में से डॉ. गोविंद सिंह, सुखदेव पांसे, जीतू पटवारी, तुलसीराम सिलावट, ओमकार सिंह मरकाम व तरुण भनोत ने विचार रखे। सूत्र बताते हैं कि अनौपचारिक बैठक में मुख्यमंत्री नाथ ने मंत्रियों को काम और आने-जाने के लिए समय का ध्यान रखने की नसीहत दी। वहीं, उन्होंने कांग्रेस संगठन को सर्वोपरि बताते हुए कहा कि यह मातृ संस्था है और इसीलिए पहली कैबिनेट की अनौपचारिक बैठक यहां रखी गई है। मंत्रियों से कहा कि वे अपने क्षेत्र और उसके आसपास के क्षेत्र में विकास के काम करें। सबको मिलकर काम करना है और वचन पत्र के हिसाब से काम करें। अनौपचारिक बैठक में शामिल होने के लिए मुख्यमंत्री कमलनाथ और मंत्रियों को भीड़ के बीच से गुजरना पड़ा। पीसीसी के मुख्यद्वार पर कमांडों को खड़ा कर बंद कर दिया गया तो दूसरे प्रवेश द्वार से मंत्रियों का प्रवेश कराया गया। यहां भी भीड़ के कारण पुलिस ने घेरा बनाकर मंत्रियों को भीतर प्रवेश कराया। मुख्यमंत्री को ताले तोड़कर बैठक स्थल तक पहुंचना पड़ा। मंत्रियों को धक्का-मुक्की के बीच अंदर प्रवेश कराया गया। वहीं, लिंक रोड पर शिवाजी चौक से लेकर चिनार पार्क के सामने कई बार जाम के हालात बने।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

रेलवे बीना-इटारसी में सोलर ऊर्जा से बिजली पैदा करेगा

भोपाल रेलवे स्टेशन के बाद अब रेलवे बीना और इटारसी में भी सोलर ऊर्जा से बिजली पैदा करेगा। इसे लेकर रेलवे ने तैयारी शुरू कर दी है। बीना में सोलर प्लांट बनाने का काम शुरू कर दिया है। यहां 1000 मेगावाट बिजली पैदा करने का लक्ष्य रखा गया है। इटारसी में भी सोलर ऊर्जा से बिजली बनाने का प्लान है। लेकिन, बीना में प्रस्तावित प्लांट का काम पूरा होने के बाद इटारसी में काम चालू किया जाएगा। सोलर ऊर्जा से बनने वाली बिजली का उपयोग रेलवे स्टेशन व रेलवे में दफ्तरों में किया जाएगा। इन दो सेक्शनों में बिजली उपयोग करने के बाद जो बिजली बचेगी उसे ओएचई लाइन से जोड़कर ट्रेनों के संचालन में दी जाएगी। भोपाल स्टेशन के प्लेटफार्म के शेडों की छतों पर सोलर पैनल लगाए गए थे। यह काम गुजरात की एक निजी कंपनी को दिया गया था। कंपनी ने पांच प्लेटफार्म के शेडों पर ये पैनल लगवा कर बिजली बनाना शुरू कर दिया है। एक प्लेटफार्म पर 150 मेगावाट बिजली बनाने का लक्ष्य रखा है। इस तरह 750 मेगावाट बिजली बनाने का लक्ष्य है। इसमें से करीब 50 फीसदी बिजली बनने लगी है, जो स्टेशन के उपयोग में खर्च की जा रही है। वहीं भोपाल स्टेशन की तर्ज पर हबीबगंज स्थित डीआरएम दफ्तर की छत पर भी सोलर पैनल लगाए गए हैं, यहां भी बिजली बन रही है जो दफ्तरों में उपयोग की जा रही है। भोपाल रेल मंडल में सोलर पैनल से 1000 मेगावाट बिजली पैदा करने का लक्ष्य रखा गया है। यह बिजली अकेले रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्मों पर लगे शेडों की छतों पर पैनल लगाकर बनाई जानी है। बीना प्लांट में तो अलग से बिजली तैयार की जाएगी। प्लेटफार्मों के शेड पर जो कंपनी सोलर पैनल से बिजली तैयार कर रही है वह रेलवे को फ्री में बिजली नहीं देगी। बल्कि रेलवे को एक यूनिट बिजली के बदले 5 रुपए 20 पैसे तक चुकाने होंगे। ऐसा इसलिए होगा, क्योंकि सिस्टम लगाने का काम निजी कंपनियां कर रही हैं। रेलवे ने इन कंपनियों को केवल प्लेटफार्म के शेड की छतें दी हैं, बाकी का पूरा खर्च कंपनियां ही उठा रही हैं। इसलिए पैदा होने वाली बिजली पर कंपनी का ही हक होगा। रेलवे को शुल्क चुकाकर बिजली खरीदनी होगी। डीआरएम शोभन चौधरी का कहना है सोलर ऊर्जा से बिजली तैयार करने के प्रोजेक्ट पर काम कर रहे हैं। भोपाल में बिजली बनने लगी है। अगला लक्ष्य बीना का है। सोलर ऊर्जा से बिजली बनाने से पर्यावरण को नुकसान नहीं होगा। प्राकृतिक संसाधन के दोहन से भी बच सकेंगे

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

bjp mp

  भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के टारगेट 'अब की बार 200 पार" को पाने के लिए पार्टी पूरी ताकत लगा रही है। पार्टी ने सर्वे में कमजोर परफॉरमेंस वाले विधायकों को टिकट बदलने के संकेत दे दिए हैं। पिछले ड़ेढ़ साल के दौरान लगभग 67 विधायकों से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष ने वन-टू-वन बातचीत की थी। उन सभी को पार्टी के प्रत्याशी केपक्ष में काम करने कहा गया है। सर्वे में बताया गया था कि 67 से अधिक विधायक ऐसे हैं जो अब चुनाव जीतने की स्थिति में नहीं हैं। कई विधायकों के बारे में सर्वे रिपोर्ट में कार्यकर्ताओं की उपेक्षा करने, मुलाकात नहीं करने सहित कई तरह की शिकायतें भी प्राप्त हुई थीं। सत्ता और संगठन पिछले डेढ़ साल से इन्हें कामकाज सुधारने की सलाह दे रहा था। बार-बार उनसे कहा गया था कि कार्यकर्ता नाराज रहेंगे तो आप किसके भरोसे चुनाव लड़ोगे। इसके बावजूद विधायक अपना परफॉरमेंस नहीं सुधार पाए। पार्टी सूत्रों के मुताबिक जिन विधायकों के टिकट काटे जा रहे हैं, उन्हें उनके विधानसभा क्षेत्र की सर्वे रिपोर्ट से काफी पहले अवगत करा दिया गया था। रिपोर्ट में एक-एक वर्ग से लेकर वार्ड-मोहल्ले और गांव में विधायक के कामकाज और कार्यकर्ताओं के साथ उनके समन्वय सहित आम जनता की नजर में उनकी छवि का बिंदुवार उल्लेख किया गया है। गौरतलब है कि इस रिपोर्ट के आधार पर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के दौरे के वक्त विधायकों के परफारमेंस पर विस्तार से चर्चा हुई थी। इसमें बताया गया था कि लगभग 70 विधायक ऐसे हैं जो अब चुनाव जीतने की स्थिति में नहीं हैं। कमजोर परफारमेंस वले इन विधायकों को लेकर पार्टी की कवायद काफी पहले से चल रही है। हर विधायक के साथ बातचीत में उनके विधानसभा क्षेत्र की सर्वे रिपोर्ट भी साथ रखी गई थी। विधायकों को बाकायदा बताया गया कि उनके इलाके में सरकार की ओर से कितने विकास कार्य करवाए गए हैं। उनके इलाके में कांग्रेस की स्थिति क्या है। दलित वोट बैंक विधायक से कितना नाराज है। अल्पसंख्यक वोटों में विधायक को लेकर किस तरह की नाराजी है। इस तरह हर एक पहलू से विधायकों को अवगत कराया गया था। उन्हें समय भी दिया गया था कि वे अपना परफारमेंस सुधार सकते हैं। विधायकों से कहा था कि कार्यकताओं के साथ समन्वय बढ़ाएं। सर्वे रिपोर्ट में कई विधायकों के बारे में कार्यकर्ताओं की उपेक्षा करने, मुलाकात नहीं करने सहित कई तरह की शिकायतें भी प्राप्त हुई थीं। इसके बाद उन्हें सुधार करने का मौका भी दिया, फिर भी कोई खास बदलाव नहीं आया। बीजेपी के प्रदेश प्रभारी डॉ. विनय सहस्त्रबुद्धे  ने कहा कि जनप्रतिनिधियों के कार्यों का समय-समय पर आकलन होता रहता है। सभी का परफॉरमेंस पार्टी और मुख्यमंत्री के समक्ष स्पष्ट है। पार्टी की राय भी स्पष्ट है कि सिर्फ जीतने वाले प्रत्याशी को ही टिकट दिया जाएगा ।   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

डिजियाना की स्‍कार्पियो से 60 लाख रुपए जब्‍त

छतरपुर  आदर्श आचार संहिता के दौरान सघन चेकिंग अभियान के दौरान पुलिस ने एक स्कार्पियो वाहन से 60 लाख रुपए कैश जब्त कि या है। पुलिस ने कै श जब्त कर मामला इनकम टैक्स विभाग को सौंप दिया है। उधर जिस डिजियाना कंपनी के वाहन से यह कैश जब्त कि या गया है उसने जिला कलेक्टर को पैन कार्ड नंबर सहित दस्तावेज सौंपे हैं। आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर पुलिस द्वारा संपूर्ण जिले में वाहनों की नियमित चेकिंग की जा रही है। इसी के तहत सोमवार को जिला मुख्यालय के महोबा रोड पर आरटीओ कार्यालय के पास पुलिस द्वारा चेकिंग अभियान चलाया जा रहा था। मुखबिर की सूचना पर सरबई से छतरपुर के लिए आ रही एक नीले रंग की स्कॉर्पियो गाड़ी क्रमांक एमपी 16 सी 8759 को रोककर जब पुलिस ने तलाशी ली तो उसमें से 60 लाख रुपए की बड़ी रकम नगद प्राप्त हुई। पुलिस ने स्कॉर्पियो में सवार तीन व्यक्तियों अरविन्द्र कु मार, अनिल सोलंकी और एक अन्य से पूछताछ की और बाद में रुपए जब्त कर मामला इनकम टैक्स विभाग के सुपुर्द कर दिया। सोमवार को जिस स्कार्पियो वाहन से बड़ी रकम जब्त की गई वह वाहन और कर्मचारी जिले में बालू का ठेका लेने वाली डिजियाना कंपनी के हैं। मामले की गंभीरता को देखते हुए छतरपुर जिला आयकर अधिकारी रामचंद्र और अनुविभागीय अधिकारी कमलेशपुरी भी पहुंच गए हैं। कंपनी ने तुरंत इस मामले में सक्रिय होकर छतरपुर कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी रमेश भंडारी के नाम एक आवेदन देकर बताया है कि कंपनी छतरपुर जिले की के न नदी में नेहरा, बारबंद1, बारबंद2, बारीखेड़ा नामक बालू की खदानें चलाती है। पुलिस द्वारा पकड़ी गई रकम कंपनी के एक्सिस बैंक के खाता क्रमांक 917020075930197 में जमा करने के लिए लाया जा रहा था। डिजियाना कंपनी ने अपना पेन नम्बर बताते हुए कहा कि उनकी पकड़ी गई रकम पूरी तरह से वैध है। बहरहाल, मामले का पर्दाफाश आयकर विभाग की जांच के बाद माना जा रहा है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

balaghat

  पेड न्यूज को लेकर चुनाव आयोग अभी से काफी सतर्कता बरत रहा है। 2013 के विधानसभा चुनाव में सर्वाधिक 37 पेड न्यूज के मामले बालाघाट में सामने आए थे। कुल 486 शिकायतें हुई थीं, जिनमें 172 को सही पाते हुए खर्च उम्मीदवारों के खाते में जोड़ा गया। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी वीएल कांताराव ने सभी कलेक्टर और रिटर्निंग ऑफिसरों को पेड न्यूज के मामले में सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने बताया कि पिछले विधानसभा चुनाव में 486 पेड न्यूज की शिकायतें सामने आई थीं। जिला स्तरीय समिति ने 237 मामलों को पेड न्यूज मानकर प्रकरण पंजीबद्ध कर उम्मीदवरों को नोटिस थमाए थे। 17 मामलों में उम्मीदवारों ने पेड न्यूज को स्वीकार करते हुए खर्च खाते में शामिल करने की सहमति दी थी। वहीं, अपील आदि प्रक्रिया के बाद 155 मामलों को भी पेड न्यूज माना गया और खर्च निर्वाचन व्यय में जोड़ा गया। बालाघाट के बाद उज्जैन में 30, नीमच 18, रीवा 14, खंडवा 13, ग्वालियर 11, इंदौर 8, छतरपुर और कटनी में 6-6 और सतना में चार प्रकरण पेड न्यूज के बने थे। सत्तारूढ़ होने के बावजूद चुनाव के दौरान शिकायत करने में कांग्रेस से आगे भाजपा है। चुनाव आयोग के राष्ट्रीय पोर्टल पर भाजपा ने 46 शिकायतें दर्ज कराई हैं तो कांग्रेस 15 तक ही पहुंच सकी। पोर्टल पर कुल 781 शिकायतें दर्ज हुईं। इनमें से 507 का निराकरण हो चुका है और 274 लंबित हैं। वहीं, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय में शिकायत देने की बात की जाए तो कांग्रेस बहुत आगे है। यहां कांग्रेस ने आचार संहिता लागू होने के बाद से अब तक 27 शिकायतें दी हैं तो भाजपा की ओर से मात्र आठ शिकायत ही की गईं। आम आदमी और समाजवादी पार्टी की ओर से एक-एक शिकायत दर्ज कराई गई हैं। बाकी 10 शिकायतें अन्य व्यक्तियों की ओर से की गई हैं।    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

nabard

नाबार्ड की राष्ट्र स्तरीय प्रदर्शनी-सह-बिक्री मेले में शामिल हुईं राज्यपालएमपी की राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने कहा है कि महिला स्व-सहायता समूह सामाजिक कुरीतियों और नशे जैसी बुराई को समाप्त करने में योगदान करें। श्रीमती पटेल मंगलवार को भोपाल में नाबार्ड द्वारा आयोजित स्व-सहायता समूहों, शिल्पकारों तथा कृषि उत्पादन संगठनों के उत्पादों की राष्ट्र-स्तरीय प्रदर्शनी- सह-बिक्री मेले के समापन समारोह को संबोधित कर रही थीं। उन्होंने कहा कि गांधी जयंती पर अगर हम सब गांधी जी के जीवन से जुड़ी छोटी-छोटी बातों जैसे नशा न करना तथा सत्य और अहिंसा के मार्ग पर चलने का संकल्प लें, तो यह गांधी जी को सच्ची श्रद्धांजलि होगी। श्रीमती पटेल ने कहा कि विश्व के सभी देश अपने राष्ट्र को पुरूष के रूप में मानते हैं। केवल हमारा देश है जो भारत माता के रूप में पूजा जाता है। इसलिए हमारे देश में महिलाओं का सदियों से सम्मान किया जाता रहा है। उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी ने चरखा चला कर हमें आजादी दिलाई, हजारों स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों ने बिना भेदभाव किये देश के लिए प्राण न्यौछावर कर दिये और आज हम जातीवाद की समस्या से ही जूझ रहे हैं। श्रीमती पटेल ने कहा कि आज हमें सोचना पड़ेगा कि हमें देश के लिए क्या करना है। जब देश हित, देश प्रेम, गरीबों की सहायता, सभी को शिक्षा और सभी के विकास में सब मिलकर सहयोग करेंगे, तभी प्रधानमंत्री की सबका साथ-सबका विकास की सोच साकार रूप ले सकेगी। उन्होंने कहा कि हमारे पूर्वजों ने देश के अंतिम व्यक्ति तक लाभ पहुंचाने की सोच को बढ़ावा दिया। प्रधानमंत्री जी ने गांधी जी की मंशानुसार योजनाएं बनाकर अंतिम व्यक्ति तक उनका लाभ पहुँचाने का प्रयास किया है। मेले में कृषि उत्पादन आयुक्त, श्री पी सी मीणा, प्रमुख सचिव कृषि श्री राजेश राजौरा, प्रमुख सचिव सहकारिता श्री के सी गुप्ता, मुख्य महाप्रबंधक भारतीय स्टेट बैंक श्री योगेंद्र सिंह, महाप्रबंधक यूनियन बैंक आफ इंडिया श्री जे एस चौहान, तथा अन्य विभागों के वरिष्ठ अधिकारी और प्रतिनिधि उपस्थित थे। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में महिलाएं, कृषक और गणमान्य नागरिक शामिल हुए।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

shivraj singh

मुख्यमंत्री ने सीहोर जिले को दी 342 करोड़ के विकास कार्यों की सौगात एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सीहोर जिले के ग्राम नांदनेर में विशाल जनसभा में बताया कि राज्य सरकार ने बिजली बिल माफी योजना के अंतर्गत प्रदेश में गरीबों और अन्य जरूरतमंदों के 5 हजार 200 करोड़ रुपये के बकाया बिजली बिल माफ कर दिये हैं। इसके साथ ही इन सबको प्रति माह अधिकतम 200 रुपये के बिल पर बिजली उपलब्ध करवाई जा रही है। श्री चौहान ने ग्राम नांदनेर में 342 करोड़ रुपये से अधिक के विकास कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण किया। श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश को बीमारू राज्य की श्रेणी से निकालकर विकसित राज्य की श्रेणी में स्थापित करने में राज्य सरकार सफल रही है। अब प्रदेश को समृद्ध राज्य का दर्जा दिलाने के लिये सभी संभव प्रयास शुरू किये गये हैं। विभिन्न योजनाओं की जानकारी देते हुए उन्होंने लोगों का आव्हान किया कि अधिकारपूर्वक योजनाओं का लाभ प्राप्त करें। श्री चौहान ने बताया कि ग्राम नांदनेर तथा इसके आसपास के गाँवों में किसानों को लिफ्ट इरीगेशन के माध्यम से सिंचाई सुविधा उपलब्ध करवाई जायेगी। इस मौके पर जिले के प्रभारी, लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती उर्मिला मरेठा, अन्य जन-प्रतिनिधि और बड़ी संख्या में ग्रामीण और किसान मौजूद थे। दिवंगत हेड कांस्टेबल को दी श्रृद्धांजलि मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आज बुधनी-शाहगंज मार्ग पर पुलिस विभाग की बस के दुर्घटनाग्रस्त होने पर दु:ख व्यक्त किया। श्री चौहान ने बस में ड्यूटी पर आ रहे हेड कांस्टेबल श्री अशोक सिंह की मृत्यु हो जाने पर शोक-संवेदना व्यक्त करते हुए दिवंगत आत्मा को श्रृद्धांजलि अर्पित की। मुख्यमंत्री ने कहा कि दु:ख की इस घड़ी में दिवंगत हेड कांस्टेबल श्री अशोक सिंह के परिवार के साथ राज्य सरकार खड़ी है। परिवार को सभी संभव सहायता उपलब्ध करवाई जायेगी।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

वूमन प्रेस क्लब

    शहरी महिलाओं के साथ-साथ ग्रामीण महिलाओं से सतत संवाद और उनके बौद्धिक स्तर में वृद्धि के प्रयास करना जरूरी है। यह कार्य शासकीय और अशासकीय संस्थाओं को मिलकर करना होगा। जनसम्पर्क, जल-संसाधन एवं संसदीय कार्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने वूमन प्रेस क्लब द्वारा आयोजित जन-संवाद कार्यक्रम में यह बात कही। इस अवसर पर महिला बाल विकास मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनिस भी उपस्थित थीं। कार्यक्रम में विद्यार्थियों ने महिला कल्याण, सार्वजनिक क्षेत्र में महिलाओं की भूमिका आदि मुद्दों पर सवाल पूछे, जिनके उन्हें समाधान कारक जवाब मिले। डॉ. मिश्र विद्यार्थियों की जिज्ञासाओं और प्रश्नों के सटीक उत्तर दिये। कार्यक्रम में पत्रकारिता के विद्यार्थी बड़ी संख्या में उपस्थित थे। इस अवसर पर कुलपति  जगदीश उपासने भी उपस्थित थे। कार्यक्रम में महिलाओं की भागीदारी से संबंधित प्रीति त्रिपाठी निर्देशित फ़िल्म के अंश भी दिखाये गये।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

वूमन प्रेस क्लब

    शहरी महिलाओं के साथ-साथ ग्रामीण महिलाओं से सतत संवाद और उनके बौद्धिक स्तर में वृद्धि के प्रयास करना जरूरी है। यह कार्य शासकीय और अशासकीय संस्थाओं को मिलकर करना होगा। जनसम्पर्क, जल-संसाधन एवं संसदीय कार्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने वूमन प्रेस क्लब द्वारा आयोजित जन-संवाद कार्यक्रम में यह बात कही। इस अवसर पर महिला बाल विकास मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनिस भी उपस्थित थीं। कार्यक्रम में विद्यार्थियों ने महिला कल्याण, सार्वजनिक क्षेत्र में महिलाओं की भूमिका आदि मुद्दों पर सवाल पूछे, जिनके उन्हें समाधान कारक जवाब मिले। डॉ. मिश्र विद्यार्थियों की जिज्ञासाओं और प्रश्नों के सटीक उत्तर दिये। कार्यक्रम में पत्रकारिता के विद्यार्थी बड़ी संख्या में उपस्थित थे। इस अवसर पर कुलपति  जगदीश उपासने भी उपस्थित थे। कार्यक्रम में महिलाओं की भागीदारी से संबंधित प्रीति त्रिपाठी निर्देशित फ़िल्म के अंश भी दिखाये गये।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

narottm mishra

एमपी के जनसम्पर्क, जल संसाधन और संसदीय कार्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने आज भोपाल में  साप्ताहिक समाचार पत्र कृषक जगत के मध्यप्रदेश के विकास पर केन्द्रित विशेषांक का विमोचन किया। विशेषांक में कृषि और सिंचाई के माध्यम से प्रदेश में आई समृद्धि का ब्यौरा सफलता कहानियों के साथ प्रकाशित किया गया है। विशेषांक विमोचन अवसर पर अखबार के संपादक  सुनील गंगराड़े और श्रीमती साधना गंगराड़े मौजूद थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 सब रजिस्ट्रार अशोक को घूस लेते लोकायुक्त पुलिस ने पकड़ा

स्टांप शुल्क की रजिस्ट्री जारी करने के लिए मांग रहे थे रिश्वत भोपाल के आईएसबीटी स्थित रजिस्ट्रार ऑफिस में पदस्थ सब रजिस्ट्रार अशोक शर्मा को लोकायुक्त पुलिस ने 40 हजार रुपए की रिश्वत लेते दबोचा। एक ई-सर्विस प्रोवाइडर से ये रिश्वत तीन करोड़ पांच लाख रुपए के जमा स्टांप शुल्क की रजिस्ट्री जारी करने के लिए मांगी जा रही थी। सब रजिस्ट्रार ने कुल जमा स्टांप शुल्क पर .2 फीसदी कमीशन मांगा था।   पंजाबी बाग निवासी राजेश दुबे ई-सर्विस प्रोवाइडर हैं। उन्होंने रजिस्ट्री के लिए तीन करोड़ पांच लाख रुपए स्टांप शुल्क ऑनलाइन जमा कर दिया था।  राजेश के मुताबिक रजिस्ट्री लेने की बारी आई तो शर्मा अपना कमीशन मांगने लगे। बोले कि इतने स्टांप शुल्क पर .2 फीसदी कमीशन दे दो, जो 61 हजार रुपए होता है। परेशान होने के बाद राजेश ने दोबारा बात की तो अशोक बोले कि चलो 61 नहीं तो 50 हजार ही दे देना। इस पर राजेश ने 30 हजार रुपए की बात की तो अशोक ने कहा कि 40 हजार रुपए पर फाइनल करते हैं। इस बीच 25 सितंबर को राजेश ने लोकायुक्त पुलिस से इसकी शिकायत कर दी।    बाबुओं ने फैला दिया कि हमला हो गया:  टीआई सलिल शर्मा ने बताया कि रिकॉर्डिंग में 40 हजार रुपए रिश्वत मांगे जाने की पुष्टि हो गई थी। शुक्रवार दोपहर करीब एक बजे राजेश को अशोक शर्मा ऑफिस भेजा गया। अशोक ने रिश्वत की रकम लेकर अपने  ड्रॉज में रख ली। राजेश का इशारा मिलते ही योजना के तहत वहां पहले से मौजूद लोकायुक्त की टीम ने अशोक को ट्रैप कर लिया। कार्रवाई शुरू होते ही रजिस्ट्रार ऑफिस के बाबुओं ने फैला दिया कि सब रजिस्ट्रार पर किसी ने हमला कर दिया है। वहां के कर्मचारियों के साथ-साथ रजिस्ट्री कराने आए लोग भी दहशत में आ गए। अफसरों को लोकायुक्त पुलिस ने जैसे ही ट्रैप कार्रवाई की जानकारी दी, सभी अपने-अपने स्थान पर चले गए।    टीम ने अशोक के ड्रॉज से रिश्वत में लिए गए 40 हजार रुपए जब्त कर लिए। सूत्रों के मुताबिक कार्रवाई के दौरान सब रजिस्ट्रार ने टीम से कहा कि हम भी पुलिस परिवार से जुड़े हैं। बताया जा रहा है कि उनके बड़े भाई अनिल शर्मा इंदौर देहात के डीआईजी हैं। अशोक वर्ष 1995 में एमपी पीएससी के जरिए सब रजिस्ट्रार बने और उनकी पहली पोस्टिंग ग्वालियर में हुई।   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

shivraj singh

  मुख्यमंत्री ने 9.48 लाख किसानों के खातों में ट्रांसफर किये प्रोत्साहन राशि के 853 करोड़ एमपी के मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने होशंगाबाद जिले के पिपरिया में कहा कि खेती की लागत घटाने के लिये खेतों में नई तकनीक का उपयोग किया जायेगा। जैविक खेती और यूनिक खेती को बढ़ावा दिया जायेगा। श्री चौहान किसान महा-सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने इस अवसर पर मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना के अंतर्गत 9 लाख 48 हजार किसानों के बैंक खातों में 853 करोड़ प्रोत्साहन राशि आरटीजीएस के माध्यम से ट्रांसफर की। मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना में किसानों को दी गई प्रोत्साहन राशि में से चना उत्पादक 14 हजार 573 किसानों के बैंक खातों में 4 करोड़ 88 लाख, मसूर उत्पादक 187 किसानों के बैंक खातों में 374 लाख, सरसो उत्पादक 93 किसानों के बैंक खातों 181 लाख तथा मूंग उत्पादक 26 हजार 501 किसानों के खाते में 57 करोड़ 7 लाख रूपये राशि प्रदान की गई। श्री चौहान ने मुख्यमंत्री उद्यमी योजना में हितग्राही मयूर डाबर को डिजीटल लाण्ड्री शुरू करने के लिये 24 लाख रूपये का ऋण स्वीकृति पत्र, नीरज साहू को हैण्डलूम शॉप के लिये 7 लाख रूपये का ऋण स्वीकृति पत्र, कृषक समृद्धि योजना में प्रतीकात्मक रूप से कृषक मान सिंह गुर्जर को एक लाख 600, खुशीलाल को 75 हजार और अशोक को 60 हजार रूपये की प्रोत्साहन राशि प्रदान की। संबल योजना में अनुग्रह राशि के रूप में हेमराज को 4 लाख एवं गुल्लू को 2 लाख रूपये की सहायता राशि प्रदान की। श्री चौहान ने विकलांग पेंशन, सरल बिजली बिल माफी योजना के हितग्राहियों को भी प्रतीकात्मक स्वरूप सहायता राशि और प्रमाण-पत्र प्रदान किये। मुख्यमंत्री द्वारा 27.89 करोड़ के कार्यों का लोकार्पण एवं भूमि-पूजन मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पिपरिया में 27 करोड़ 89 लाख रूपये लागत के 20 कार्यों का लोकार्पण और भूमि-पूजन किया। इन कार्यों में 8 करोड़ 24 लाख रूपये लागत रूपये के 5 कार्यों का लोकार्पण और 19 करोड़ 65 लाख रूपये लागत के 15 कार्यों का भूमि-पूजन शामिल है। किसान महा-सम्मेलन में जिले के प्रभारी मंत्री श्री जालम सिंह पटेल, सांसद श्री राव उदय प्रताप सिंह, विधायक श्री ठाकुरदास नागवंशी, मुख्यमंत्री श्री चौहान की धर्मपत्नी श्रीमती साधना सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष श्री कुशल पटेल, म.प्र. सिविल सप्लाई कार्पोरेशन के अध्यक्ष श्री हीतेश वाजपेयी, म.प्र. खनिज विकास निगम के अध्यक्ष श्री शिव चौबे, जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष श्री भरत सिंह राजपूत, अन्य जन-प्रतिनिधि और बड़ी संख्या किसान और ग्रामीण शामिल हुए।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

bhopal

36वीं वार्षिक राष्ट्रीय पुलिस प्रशिक्षण संगोष्ठी का समापन समारोह सम्पन्न  एमपी की राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने वार्षिक राष्ट्रीय पुलिस प्रशिक्षण के मौके पर संगोष्ठी के समापन समारोह में कहा कि आम जनता का जो विश्वास पुलिस पर है, उस छवि को बरकरार रखने का हर संभव प्रयास करना चाहिए। उन्होंने कहा कि जब पुलिस पर चुनौतियों का सामना करने का अवसर आता है, तो वह किसी बात की परवाह किये बगैर अपने दायित्व का निर्वाह करती है। राज्यपाल ने पुलिस अधिकारियों से मृदुभाषी, जनोन्मुखी, भरोसेमंद तथा व्यावसायिक बनने का संकल्प लेने के लिये कहा। राज्यपाल ने कहा कि िडजिटल टेक्नोलॉजी ने फोरेंसिक साइंस को नई ताकत दी है। पहले तो सारी टेस्टिंग, इन्वेस्टीगेशन आदि फिजिकली ही करना पड़ते थे। डिजिटल टेक्नोलॉजी ने इन कार्यों को आसान कर दिया है। इससे युवाओं को रोजगार के अवसर भी उपलब्ध हो सकेंगे। उन्होंने कहा कि साइबर क्राइम देश के नागरिकों की प्राइवेसी के लिए तो चुनौती है। यह नेशनल सिक्योरिटी की दृष्टि से भारत सहित पूरी दुनिया के लिए भी बड़ी चुनौती है। उन्होंने कहा कि पुलिस आधिकारियों का कर्तव्य है कि वे अपराधियों के खिलाफ ऐसे ठोस सबूत इकट्ठा कर पेश करें, जिससे अदालत को जल्द फैसला लेने का मजबूत आधार उपलब्ध हो सके। उन्होंने कहा कि पुलिस सखी योजना महिलाओं पर हो रहे अपराधों को रोकने के लिए बहुत लाभदायक है। इस योजना को राष्ट्रीय स्तर पर लागू करने पर विचार किया जाना चाहिए। पुलिस महानिदेशक श्री ए.पी.महेश्वरी ने कहा कि पुलिस को जनता के साथ अच्छा व्यवहार रखना चाहिए ताकि जनता से उनकी नजदीकी संबंध स्थापित रहें। उन्होंने कहा कि देश में होने वाले भौगोलिक, सामाजिक परिवर्तनों के कारण पुलिस की जिम्मेदारी बढ़ जाती है। उन्होंने कहा कि हमारे देश में विदेशों से आने वाले पर्यटकों की संख्या में भी निरंतर वृद्धि हो रही है इसलिए पर्यटकों की सुरक्षा का उचित प्रबंध करना भी पुलिस का दायित्व है, ताकि देश की विश्व में छवि खराब न हो। इस अवसर पर पुलिस महानिदेशक श्री ए.पी.महेश्वरी, अपर मुख्य सचिव गृह श्री मलय श्रीवास्तव, डायरेक्टर सीएपीटी श्री पवन श्रीवास्तव, डायरेक्टर डीआरएनडीडी र्डॉ अनुपमा चन्द्रा उपस्थित थे। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में पुलिस अधिकारी और कर्मचारी शामिल हुए।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि ऐसे नर्सिंग होम, जो रिहायशी क्षेत्र में पहले से स्थापित हैं, उनको नहीं हटाया जायेगा। भविष्य में मास्टर प्लान में नर्सिंग होम के लिये रिहायशी क्षेत्रों में जगह सुरक्षित रखने के संबंध में प्रावधान किये जायेंगे। श्री चौहान आज यहाँ अपने निवास पर चिकित्सकों के सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। सम्मेलन में 14 मेडिकल एसोशिएशन के प्रतिनिधि, शासकीय एवं निजी मेडिकल कॉलेजों के जूनियर डॉक्टर शामिल हुए। श्री चौहान ने कहा कि चिकित्सा विद्यार्थियों की स्कॉलरशिप बढ़ायी जायेगी। इस संबंध में अगली केबिनेट में निर्णय लिया जायेगा। श्री चौहान ने कहा कि नर्सिंग होम्स को अब केवल बीस दिन के अंदर फॉयर एनओसी मिल जायेगी। इसे लोक सेवा गारंटी कानून में लाया जायेगा। उन्होंने कहा कि नर्सिंग होम के लिये एनएबीएच की अनिवार्यता दो साल तक समाप्त की जा रही है। इन दो सालों में नर्सिंग होम इसकी औपचारिकताएँ पूरी कर लें। नर्सिंग होम में मरीज की मृत्यु पर बिना जाँच के धारा 304 नहीं लगाने के संबंध में एक समिति बनायी गई है। समिति में इंडियन मेडिकल एसोसिएशन और नर्सिंग होम एसोसिएशन के एक सदस्य चिकित्सक को शामिल किया जायेगा। उन्होंने कहा कि चिकित्सकों के कैडर फॉर्मेशन के लिये वित्त मंत्री की अध्यक्षता में एक कमेटी बनायी गई है, जो इस संबंध में जल्दी ही निर्णय लेगी। मेडिकल कॉलेज के शिक्षकों की समयबद्ध पदोन्नति के संबंध में भी विचार किया जायेगा। श्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी की स्वास्थ्य के क्षेत्र में विश्व की सबसे बड़ी आयुष्मान भारत योजना को क्रियान्वित करने में शासकीय और निजी चिकित्सा मेडिकल स्टॉफ का योगदान एवं सहयोग महत्वपूर्ण होगा। उन्होंने कहा कि इस योजना में संबल योजना के लाभान्वित परिवारों को भी जोड़ा गया है। श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में डॉक्टरों की कमी पूरी करने और स्वास्थ्य अधोसंरचना को मजबूत बनाने के लिये मेडिकल कॉलेज खोले जा रहे हैं। यह सिलसिला आगे भी चलता रहेगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने चिकित्सा समुदाय को हर संभव सहयोग दिया और चिकित्सा समुदाय ने भी संकट के समय लोगों की भरपूर सेवा की है। श्री चौहान ने कहा कि प्रतिभाशाली विद्यार्थियों को मेडिकल कॉलेजों में प्रवेश मिलने पर उनकी पढ़ाई का खर्चा सरकार उठायेगी। पैसों के अभाव में प्रतिभाशाली बच्चे पीछे नहीं रहने चाहिये। स्वास्थ्य मंत्री श्री रूस्तम सिंह, अपर मुख्य सचिव श्री राधेश्याम जुलानिया और नर्सिंग होम एसोसिएशन के पदाधिकारी सम्मेलन में उपस्थित थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

हाथियों के रहवास चिन्हित होंगे

एमपी के मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में हाथियों के आगमन के संभावित स्थलों को चिन्हित किया जाये, ताकि राज्य में उनका उचित और सुरक्षित रहवास हो सके। उन्होंने कहा कि मानव और वन्य प्राणियों के हितों के संरक्षण की संतुलित और व्यवहारिक नीति पर कार्य किया जाये, ताकि उनके मध्य किसी प्रकार का संघर्ष नहीं हो। श्री चौहान ने आज मंत्रालय में राज्य वन्य प्राणी बोर्ड की 17वीं बैठक में यह बात कही। श्री चौहान ने कहा कि वन्य प्राणी द्वारा फसलों की क्षति पर किसानों को राजस्व संहिता के अंतर्गत प्रावधान कर राहत राशि दी जा रही है। लोक सेवा गारंटी कानून के अंतर्गत त्वरित सहायता दिये जाने के प्रावधान किये गये हैं। उन्होंने कहा कि अवैध उत्खनन को रोकने के लिये जनसहभागिता से सघन प्रयास किये गये हैं। खदानों को पंचायतों के सुर्पुद कर दिया गया है, ताकि ग्रामीणजन स्वयं उनका नियमन और नियंत्रण करे सकें। उन्होंने कहा कि कुनोपालपुर क्षेत्र वन्य प्राणी आबादी से समृद्ध हुआ है। रातापानी और रानी दुर्गावती अभ्यारण्य में भी वन्य प्राणियों की संख्या बढ़ी है। बैठक में बताया गया कि प्रदेश की ओर से उड़ीसा को एक जोड़ा बाघ प्रदाय किया गया है। नर एवं मादा बाघ को बांधव टाइगर रिजर्व से ले जा कर सतकोसिया टाइगर रिजर्व में सफलतापूर्वक छोड़ा गया है। इसी तरह नौरादेही अभ्यारण्य में भी एक जोड़ा बाघ की पुनर्स्थापना की गई है। बांधवगढ़ राष्ट्रीय उद्यान के स्वर्ण जयंती अवसर पर भारतीय डाकतार विभाग द्वारा विशेष आवरण जारी किया गया है। अखिल भारतीय बाघ गणना कार्यक्रम के तहत बाघ, सहभक्षी, अहेर प्रजातियों एवं उनके रहवास का वर्ष 2018 में फरवरी से मार्च माह के दौरान अनुश्रवण किया गया। फेज-वन के चार चक्रों में प्राप्त आंकड़ों की 2014 के आँकड़ों से तुलना की गई। इसमें बाघ उपस्थिति क्षेत्र में लगभग दोगुनी वृद्धि परिलक्षित हुई है। वर्ष 2014 में 717 बीटों में बाघों की उपस्थिति के चिन्ह मिले थे। वर्तमान में 1400 से अधिक बीटों में उपस्थिति के चिन्ह मिले हैं। बैठक में बोर्ड के अशासकीय सदस्यों ने विभिन्न गतिविधियों की सराहना की। साथ ही, अधिक बेहतर प्रयासों के संबंध में सुझाव भी दिये। इस मौके पर विगत बैठक के पालन-प्रतिवेदन का अनुमोदन किया गया। बैठक में वन मंत्री डॉ. गौरीशंकर शेजवार, मुख्य सचिव श्री बी.पी. सिंह तथा वन्य प्राणी बोर्ड के शासकीय और अशासकीय सदस्य मौजूद थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

shivraj singh

मुख्यमंत्री द्वारा रक्तदान शिविर का शुभारंभ और यातायात उद्यान में पौध-रोपण  मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि संपूर्ण प्रदेश में 17 से 25 सितम्बर तक सेवा कार्य होंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज शासकीय मोतीलाल नेहरू महाविद्यालय मेंरक्तदान शिविर और यातायात उद्यान में पौधरोपण कार्यक्रम में शामिल हुए। उन्होंने महाविद्यालय में रक्तदान शिविर का शुभारंभ किया और यातायात उद्यान में पौध-रोपण किया। इस अवसर पर सांसद श्री आलोक संजर, महापौर श्री आलोक शर्मा, अध्यक्ष नगर निगम श्री सुरजीत सिंह चौहान और विधायक श्री सुरेन्द्रनाथ सिंह उपस्थित थे। रक्तदान-जीवनदान मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि रक्तदान जीवनदान है। उन्होंने रक्तदाताओं को दूसरों को जीवन देने के लिये बधाई दी। श्री चौहान ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी को प्रदेश की साढ़े सात करोड़ जनता की ओर से जन्म दिवस की बधाई दी। उन्होंने बताया कि श्री मोदी के जन्म दिवस से पं. दीनदयाल उपाध्याय की जयंती तक संपूर्ण प्रदेश में सामाजिक सहयोग से निरंतर सेवा के कार्य निरंतर किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी नया भारत बनाने में जुटे हैं। मध्यप्रदेश की जनता उनके साथ खड़ी है। रक्तदान कार्यक्रम में बड़ी संख्या में रक्तदाता छात्र-छात्राएं मौजूद थे। मुख्यमंत्री ने छात्र-छात्राओं के साथ सेल्फी भी खिंचवाई। वृक्ष है, तो मानव जीवन है मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि वृक्ष है, तो मानव जीवन है। उन्होंने बताया कि लोकप्रिय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी का जन्म दिवस प्रदेश में सेवा दिवस के रूप में मनाया जा रहा है। श्री चौहान ने कहा कि सेवा ही सबसे बड़ा उपहार है। संपूर्ण प्रदेश में नागरिक सेवा कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में देश का मान-सम्मान बढ़ा है। देश लगातार हर क्षेत्र में नई ऊँचाईयों को छू रहा है। हमारी अर्थ-व्यवस्था दुनिया में तेजी से आगे बढ़ रही है। मुख्यमंत्री ने यातायात पार्क में आम का पौधा लगाया।        

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

shivraj singh

मुख्यमंत्री द्वारा रक्तदान शिविर का शुभारंभ और यातायात उद्यान में पौध-रोपण  मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि संपूर्ण प्रदेश में 17 से 25 सितम्बर तक सेवा कार्य होंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज शासकीय मोतीलाल नेहरू महाविद्यालय मेंरक्तदान शिविर और यातायात उद्यान में पौधरोपण कार्यक्रम में शामिल हुए। उन्होंने महाविद्यालय में रक्तदान शिविर का शुभारंभ किया और यातायात उद्यान में पौध-रोपण किया। इस अवसर पर सांसद श्री आलोक संजर, महापौर श्री आलोक शर्मा, अध्यक्ष नगर निगम श्री सुरजीत सिंह चौहान और विधायक श्री सुरेन्द्रनाथ सिंह उपस्थित थे। रक्तदान-जीवनदान मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि रक्तदान जीवनदान है। उन्होंने रक्तदाताओं को दूसरों को जीवन देने के लिये बधाई दी। श्री चौहान ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी को प्रदेश की साढ़े सात करोड़ जनता की ओर से जन्म दिवस की बधाई दी। उन्होंने बताया कि श्री मोदी के जन्म दिवस से पं. दीनदयाल उपाध्याय की जयंती तक संपूर्ण प्रदेश में सामाजिक सहयोग से निरंतर सेवा के कार्य निरंतर किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी नया भारत बनाने में जुटे हैं। मध्यप्रदेश की जनता उनके साथ खड़ी है। रक्तदान कार्यक्रम में बड़ी संख्या में रक्तदाता छात्र-छात्राएं मौजूद थे। मुख्यमंत्री ने छात्र-छात्राओं के साथ सेल्फी भी खिंचवाई। वृक्ष है, तो मानव जीवन है मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि वृक्ष है, तो मानव जीवन है। उन्होंने बताया कि लोकप्रिय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी का जन्म दिवस प्रदेश में सेवा दिवस के रूप में मनाया जा रहा है। श्री चौहान ने कहा कि सेवा ही सबसे बड़ा उपहार है। संपूर्ण प्रदेश में नागरिक सेवा कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में देश का मान-सम्मान बढ़ा है। देश लगातार हर क्षेत्र में नई ऊँचाईयों को छू रहा है। हमारी अर्थ-व्यवस्था दुनिया में तेजी से आगे बढ़ रही है। मुख्यमंत्री ने यातायात पार्क में आम का पौधा लगाया।        

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

narendr modi

  एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी को उनके जन्मदिन पर बधाई और शुभकामनाएँ प्रेषित की हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि श्री मोदी के रूप में देश को एक सशक्त और दूरदर्शी नेतृत्व मिला है। श्री मोदी के नेतृत्व में आज पूरे विश्व में  भारत का गौरव बढ़ा है। उन्होंने श्री मोदी के सुदीर्घ और यशस्वी जीवन की ईश्वर से  कामना की है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

anandi ben patel

इंजीनियर दिवस पर उत्कृष्ट इंजीनियर हुए सम्मानित एमपी की राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने कहा है कि भारत की भूमि इंजीनियरिंग की प्रयोगशाला रही है। भारत में कई ऐसे इंजीनियर हुए, जिन्होंने अकल्पनीय को कल्पनीय बनाया और इंजीनियरिंग के दुनिया में चमत्कार कहे जाने वाले उदाहरण प्रस्तुत किये। देश के इंजीनियर पूरे विश्व में अपनी अलग पहचान बना चुके हैं। राज्यपाल ने यह बात यहां इंजीनियर दिवस के अवसर पर आयोजित समारोह को संबोधित करते हुए कही। इस अवसर पर उन्होंने उत्कृष्ट कार्य करने वाले इंजीनियरों को शाल, श्रीफल और स्मृति चिंह भेंट कर सम्मानित किया। समारोह का आयोजन मध्यप्रदेश यांत्रिकी सेवा संघ द्वारा किया गया। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि देश के विकास और नागरिकों की समृद्धि में इंजीनियरों की भूमिका संरक्षक की तरह है। देश को ईमानदार, कर्मठ और समय के प्रति वचनबद्ध इंजीनियरों की आवश्यकता है। उन्होंने कहा किइंजीनियर आधुनिक तकनीक का उपयोग कर निर्माण को गुणवत्तापूर्ण बनाने का प्रयास करें।युवा इंजीनियर देश के निर्माण में ईमानदारी और समय के प्रति वचनबद्ध होकर कार्य करें।राज्यपाल ने कहा किहमारे देश में सदियों पहले बनी कई इमारतें उत्कृष्ट इंजीनियरिंग कौशलता का प्रमाण है। लालकिला, ताजमहल, कई राजाओं के महल, नदियों पर बने घाट आज भी मौजूद है। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि भारत में उत्कृष्ट नौकरी के अवसर देने में इंजीनियरिंग का क्षेत्र बहुत विकसित है। जब बात इंजीनियरिंग की सर्वश्रेष्ठ शाखाअथवा सबसे अधिक वेतन वाली शाखाओं के चयन की आती है, तो छात्र अक्सर भ्रमित हो जाते हैं। वर्तमान में इंजीनियरिंग की सही शाखा का चुनाव करना बहुत मुश्किल है। इंजीनियरिंग के क्षेत्रों में कम्प्यूटर साइंस/आईटी इंजीनियरिंग पिछले दशक में भारतीय अर्थ-व्यवस्था की मुख्य आधार के रूप में उभरी है। श्रीमती पटेल ने कहा कि आधुनिकता और इंजीनियरिंग के बढ़ते प्रभाव से हमें मानवता को नहीं भूलना चाहिए। पर्यावरण को प्रदूषण से बचाने के लिए इंजीनियरों को स्वयं विचार करना चाहिए। सहकारिता मंत्री श्री विश्वास सारंग ने कहा कि मध्यप्रदेश को बीमारू राज्य से विकसित राज्य बनाने में इंजीनियरों का महत्वपूर्ण योगदान है। समाज और देश के विकास में इंजीनियरों की भूमिका को भुलाया नहीं जा सकता है। मध्यप्रदेश यांत्रिकी सेवा संघ के अध्यक्ष श्री अखिलेष उपाध्याय ने अतिथियों का स्वागत किया।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

narottm mishra

जनसम्पर्क, जल-संसाधन और संसदीय कार्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने कहा है कि आम आदमी की खुशहाली राज्य सरकार की पहली प्राथमिकता है। संबल योजना सहित जन-कल्याण की विभिन्न योजनाएँ इसी उद्देश्य के साथ क्रियान्वित की जा रही हैं। डॉ. मिश्र आज दतिया विधानसभा क्षेत्र की बड़ौनी नगर पंचायत में 5 लाख रुपये लागत के सामुदायिक भवन का लोकार्पण करने के बाद ग्रामीणों को संबोधित कर रहे थे। जनसम्पर्क मंत्री ने दतिया भ्रमण के दौरान वकीलों से भेंट की और पोषण जागरूकता रथ को झंडी दिखाकर ग्रामीण अंचलों के लिए रवाना किया। कार्यक्रम में पाठ्य-पुस्तक निगम के उपाध्यक्ष श्री अवधेश नायक, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती रजनी प्रजापति, नगर पंचायत अध्यक्ष श्रीमती सावित्री सूत्रकार, अन्य जन-प्रतिनिधि भी उपस्थित थे  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

digvijay singh

  कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के भोपाल दौरे को लेकर प्रदेश कांग्रेस की गुटबाजी एक बार फिर उजागर हुई है। यहां भेल दशहरा मैदान पर प्रदेश के लगभग सभी बड़े नेताओं के पोस्टर और कटआउट लगाए गए हैं, लेकिन इनमें पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के पोस्टर और कटआउट गायब हैं। इससे दिग्विजय समर्थक नाराज हो गए हैं। इधर SC/ST एक्ट को लेकर करणी सेना द्वारा राहुल गांधी के विरोध की घोषणा के बाद करणी सेना के नेता सुरेंद्र सिंह को नजरबंद कर लिया है। राहुल गांधी के भोपाल पहुंचने से पहले कांग्रेस की अंदरुनी सियासत में बवाल आ गया है। मामला सभा स्थल पर दिग्विजय सिंह के कटआउट नहीं लगने का है। दरअसल भेल दशहरा मैदान पर सोनिया गांधी, राहुल गांधी, कमलनाथ, ज्योतिरादित्या सिंधिया, सुरेश पचौरी, अजय सिंह सहित सभी बड़े नेताओं के कटआउट लगे हैं। यहां तक की विवेक तन्खा, शोभा ओझा, कांतिलाल भूरिया और अरुण यादव के भी बड़े-बड़े कटआउट सभा स्थल पर लगे हैं, लेकिन पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के कटआउट नहीं लगाए गए हैं। इससे दिग्गी समर्थकों ने नाराजगी जताई है। कांग्रेस विरोधी जहां इसे पार्टी की गुटबाजी से जोड़कर देख रहे हैं वहीं पार्टी के भीतर भी इसे लेकर बवाल मच गया है। कांग्रेसी नेता इस मामले में कुछ भी कहने से बच रहे हैं। इधर इस बारे में जब दिग्विजय सिंह से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि उन्होंने खुद अपना कटआउट हटाने को कहा था। दिग्विजय सिंह ने कहा कि वे रोज अपना चेहरा देख लेते हैं, इसलिए उन्हें अपना चेहरा दिखाने के लिए कटउट की जरुरत नहीं है। वहीं पूरे मामले को लेकर भाजपा ने निशाना साधा है। भाजपा प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल ने कहा कि कांग्रेस में हर कोई मुख्यमंत्री बनना चाहता है। वहां कमलनाथ और सिंधिया के अलावा दूसरे नेता भी मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं। इसलिए खुद को दिखाने के लिए दिग्विजय का कटआउट नहीं लगवाया। लालघाटी से दोपहर करीब 1 बजे राहुल गांधी का रोड शो शुरू हुआ । रोड़ शो लालघाटी से वीआईपी गेस्ट हाउस, इमामी गेट, सदर मंजिल, कमला पार्क, पॉलिटेक्निक चौराहा, बाण गंगा, रोशनपुरा चौराहा, अपेक्स बैंक, पीसीसी, ज्योति टॉकीज, चेतक ब्रिज, कस्तूरबा नगर तिराहे से अन्ना नगर होता हुआ दशहरा भेल मैदान पहुंचा।   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

kamla jamre

  एक शिक्षक होना महज नौकरी नहीं है, बल्कि एक महत्वपूर्ण सामाजिक दायित्व है। देश में आने वाली पीढ़ी कैसी होगी, यह एक शिक्षक की सोच पर ही निर्भर करता है। प्राथमिक स्कूल के शिक्षक की जवाबदारी तो और अधिक महत्वपूर्ण होती है। इसी भावना के साथ बड़वानी जिले में राजपुर स्थित प्राथमिक विद्यालय क्रमांक-4 की शिक्षिका सुश्री कमला जमरे ने बच्चों को शिक्षित करने के लिये अनुकरणीय उदाहरण प्रस्तुत किया है।  राजपुर प्राथमिक विद्यालय क्रमांक-4 की शिक्षिका सुश्री कमला जमरे ने स्वयं के खर्च से स्मार्ट क्लॉस के लिये सुविधायें जुटाई हैं। उन्होंने एलसीडी टी.व्ही., शुद्ध पेयजल के लिये आर.ओ. मशीन, रेडियो और म्यूजिक सिस्टम स्कूल के लिये खरीदे हैं। शिक्षिका सुश्री कमला ने विद्यालय परिसर में जन-भागीदारी से बगीचा भी तैयार करवाया है, जहाँ बच्चों के लिये झूला और फिसलपट्टी लगवायी है। इसी शाला में पदस्थ एक अन्य शिक्षिका सुश्री राखी सोनी ने बच्चों को स्वच्छ पर्यावरण में रखने, पढ़ाने की जिम्मेदारी का उत्कृष्ट उदाहरण पेश किया है। जन शिक्षक श्री नवीन गुप्ता ने बताया कि क्षेत्र की अन्य दो प्राथमिक शालाओं में भी एलसीडी टी.व्ही. के माध्यम से बच्चों को पढ़ाने की पहल शुरू की गई है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

harda

  मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज हरदा जिले में कहा कि सिराली को नगर परिषद बनाया जायेगा और यहाँ महाविद्यालय भवन का निर्माण करवाया जायेगा। उन्होंने रहटगाँव में महाविद्यालय खोलने की भी घोषणा की। मुख्यमंत्री आज सिराली और खिरकिया में 119 करोड़ के निर्माण एवं विकास कार्यों का लोकार्पण तथा भूमि-पूजन करने के बाद विशाल जनसभा को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर हरदा में 100 सीटर बालिका छात्रावास और 100 सीटर बालक छात्रावास, निर्वाचन विभाग के 1500 ईवीएम गोडाउन का भूमि-पूजन किया। इसी के साथ, स्कूल शिक्षा विभाग के अंतर्गत शासकीय हायर सेकेण्डरी स्कूल मांदला, पीपल्या, मोरगढ़ी, शासकीय हाई स्कूल रामटेकरेयत हायर सेकेण्डरी मॉडल स्कूल चेकड़ी, बालिका छात्रावास चारुवा, शासकीय हाई स्कूल भवन जटपुरामॉल, शासकीय हायर सेकेण्डरी कन्या स्कूल सिराली, शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नयापुरा, सोडलपुर, सोनतलाई, हंडिया, रहटगाँव, टिमरनी और धौलपुरकलां के भवनों का शिलान्यास किया।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

khandava

मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी प्रोत्साहन योजना का लाभ अब उन विद्यार्थियों को भी मिलेगा, जिन्होंने सीबीएसई सिलेबस के तहत बारहवीं में 80 प्रतिशत अंक हासिल किए हैं। खंडवा में  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने यह घोषणा करते हुए कहा कि पूर्व में 85 प्रतिशत की सीमा को घटाकर 80 प्रतिशत कर दिया जाएगा। श्री चौहान ने खंडवा में 500 बिस्तर के अत्याधुनिक अस्पताल खोलने की भी घोषणा की। श्री चौहान ने खंडवा में 200 करोड़ रुपए लागत के मेडिकल कॉलेज भवन का लोकार्पण करते हुए कॉलेज में बीएससी नर्सिंग कॉलेज खोलने की घोषणा की। 10 वर्षो में 2500 मेडिकल सीट बढ़ी खण्डवा में प्रदेश का दसवां मेडिकल कॉलेज आज से प्रारंभ हो गया है। वर्ष 1946 में प्रदेश में पहला मेडिकल कॉलेज ग्वालियर में खुला। वर्ष 1963 तक कुल 5 मेडिकल कॉलेज बड़े शहरों में खोले गये। इसके बाद 45 वर्षों के लंबे अंतराल में कोई भी मेडिकल कॉलेज प्रदेश में नहीं खुला। वर्ष 2009 में सागर में छठवाँ मेडिकल कॉलेज खुला और अब वर्ष 2018 में एक वर्ष में ही 4 नये मेडिकल कॉलेज खण्डवा, विदिशा, दतिया और रतलाम में खोले जा रहे हैं। मुख्यमंत्री की जन-स्वास्थ्य के प्रति संवेदना एवं प्रबल संकल्प शक्ति के फलस्वरूप तीन और मेडिकल कॉलेज वर्ष 2019 में सिवनी, छतरपुर तथ सतना में खोलने की स्वीकृति प्रदान की गई हैं। वर्ष 1946 से 1963 तक एमबीबीएस की मात्र 600 सीटें होती थीं, जो विगत 10 वर्ष में ही बढ़कर 4 गुना से भी अधिक अर्थात् 2500 सीटें हो जायेगी। यही नहीं, इस वर्ष 2018 में एक ही कैलेण्डर वर्ष में 4 नये मेडिकल कॉलेज एक साथ खुलना मध्यप्रदेश के इतिहास में एक स्वर्णिय अध्याय हैं। अब प्रदेश में प्रतिवर्ष 2500 डाक्टर तैयार होंगे। श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश में वर्ष 1964 के बाद से कोई मेडिकल कॉलेज नहीं खोला गया था। सरकार ने आधारभूत संरचना उपलब्ध करवाते हुए नवीन मेडिकल कॉलेज खोले। इससे प्रदेश में डॉक्टरों की कमी दूर होगी। उन्होंने खंडवा मेडिकल कॉलेज के शुभारंभ पर निमाड़वासियों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि यह मेडिकल कालेज इस सत्र से प्रारंभ हो गया है। मुख्यमंत्री ने छात्र सौरभ पटेल और छात्रा प्रीति मिश्रा को मौके पर ही मेधावी विद्यार्थी प्रोत्साहन योजना से लाभांवित किया। उन्होंने मेडिकल कॉलेज भवन निर्माण के लिए स्वीकृत 200 करोड़ के अतिरिक्त विभिन्न उपकरणों और आवश्यक सामग्री के लिए 300 करोड़ देने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने मेडिकल के सभी नव-प्रवेशित विद्यार्थियों को अपनी ओर से हनुमंतिया टूर करवाने के निर्देश स्थानीय प्रशासन को दिए। कार्यक्रम में स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. कुंवर विजय शाह, विधायक श्री देवेंद्र वर्मा और सांसद श्री नंदकुमार सिंह चौहान ने भी विचार व्यक्त किये। इस मौके पर राज्य सभा सांसद श्री प्रभात झा, विधायक श्रीमती योगिता बोरकर और आयुक्त चिकित्सा शिक्षा श्री शिवशेखर शुक्ला उपस्थित थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

shivraj singh

एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भगवान श्रीकृष्ण से कृपा की वर्षा करने की प्रार्थना की है। उन्होंने कहा है कि प्रगति और विकास पथ पर प्रदेश-देश लगातार उन्नति करे। सबके जीवन में सुख-समृद्धि, रिद्धी-सिद्धी आये। श्री चौहान ने यह प्रार्थना कृष्ण जन्माष्टमी कार्यक्रम में की। सर्वधर्म समभाव की परंपरा को आगे बढाते हुए मुख्यमंत्री निवास में श्री कृष्ण जन्मोत्सव श्रद्धा और भक्ति भाव से आज मनाया गया। इस अवसर पर श्री चौहान की धर्मपत्नी श्रीमती साधना सिंह भी मौजूद थीं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने भगवान श्री कृष्ण के श्रीचरणों में नमन करते हुये कृपा और आनंद की वर्षा करने की प्रार्थना की। उन्होंने भक्तगणों का आव्हान किया कि भगवान श्रीकृष्ण की भक्ति में लीन हो जायें। उन्होंने सभी को कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक बधाई और शुभकामनाएँ दी। सब सुखी, सब निरोगी हों। श्री चौहान ने बताया कि भोपाल सेंट्रल जेल के कार्यक्रम में बंदियों के भक्ति रंग को देख, वे अत्यंत प्रभावित हुये। उन्हें कार्यक्रम में प्रस्तुति देने के लिये आमंत्रित किया। उन्होंने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति में एक अच्छा इंसान जिंदा रहता है। कई बार विपरीत परिस्थितियों वश जेल जाना पड़ता है। आपातकाल के दौरान उन्हें भी भोपाल जेल में रहना पड़ा था। भगवान श्रीकृष्ण का जन्म भी कारागार में हुआ था। जन्मोत्सव में सेंट्रल जेल भोपाल के बंदियों द्वारा भक्ति संगीत की ऐसी धारा प्रवाहित की गई जिसमें सारा परिवेश भक्तिरस में सराबोर हो गया। भगवान श्रीकृष्ण के भजनों से वातावरण कृष्णमय होकर, पूरी तरह आध्यात्मिक बन गया। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री ने सभी धर्मों के विशिष्ट त्यौहारों और अवसरों पर मुख्यमंत्री निवास में उत्सवों के आयोजन की परंपरा स्थापित की है। इसे गरिमा के साथ आगे बढ़ाते जा रहे हैं। इसी श्रंखला मे आज श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का त्यौहार पूरी पारंपरिक गरिमा एवं अनुष्ठान से मनाया गया। बडी संख्या में श्रद्धालुओं ने भाग लिया। उत्सव में विधिवत कृष्ण जन्म, मटकी फोड़, पूजन-अर्चन आदि के कार्यक्रम भक्तिपूर्ण उल्लासमय गरिमा के साथ मनाये गये। मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के पावन अवसर पर प्रदेशवासियों और श्रद्धालुओं को हार्दिक शुभकामनाएँ दी हैं। श्री चौहान ने शुभकामना संदेश में कहा कि भगवान श्रीकृष्ण ने श्रीमद् भगवद् गीता के माध्यम से कर्मयोग की शिक्षा दी। उन्होंने कहा कि भगवान श्रीकृष्ण का जीवन, भक्ति-ज्ञान और कर्म के मार्ग पर चलने की प्रेरणा देता है। प्रेम, भक्ति और आध्यात्मिक उत्कर्ष उनके दार्शनिक तत्व हैं। मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों से भगवान श्रीकृष्ण के आदर्शों पर चलने का आव्हान करते हुए कहा कि भक्ति, कर्म और ज्ञान मार्ग से ही समाज और प्रदेश के नव-निर्माण का मार्ग प्रशस्त होगा। राज्यपाल ने जन्माष्टमी पर प्रदेशवासियों को दी बधाई राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने जन्माष्टमी के पावन पर्व पर प्रदेशवासियों को बधाई और शुभकामनाएं दी हैं। श्रीमती पटेल ने शुभकामना संदेश में कहा है कि भगवान श्रीकृष्ण ने दुनिया को सत्य के मार्ग पर चलते हुए कठिनाईयों का सामने करने की सीख दी है। भगवद गीता के उपदेश जनमानस के लिए जीवन दर्शन प्रस्तुत करते हैं। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि भगवान श्रीकृष्ण द्वारा दिया गया गीता का ज्ञान विश्व में आज भी प्रासांगिक है। श्रीमती पटेल ने जन्माष्टमी के पावन पर्व पर प्रदेशवासियों की सुख- समृद्धि की कामना की है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

madhyprdesh

हानएमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को देर रात सीधी को मिनी स्मार्ट-सिटी बनाने के लिये 21 करोड़ के कार्यो सहित जिले में 600 करोड़ रुपये लागत के निर्माण एवं विकास कार्यों का लोकार्पण तथा शिलान्यास किया। श्री चौहान ने विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि मध्यप्रदेश को विकास और जन-कल्याण के क्षेत्र में देश का नम्बर-1 राज्य बनाया जायेगा। इस लक्ष्य की प्राप्ति के लिये अभियान शुरू कर दिया गया है। राज्य सरकार विकास के साथ-साथ आम जनता की जिंदगी को खुशहाल बनाने के लिये कृत-संकल्पित होकर कार्य कर रही है। श्री चौहान ने प्रदेश में संचालित जन-कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी देते हुए लोगों से आग्रह किया कि योजनाओं का लाभ लेने के लिए अधिकारपूर्वक आगे आएँ। उन्होंने कहा कि समाज के कमज़ोर वर्ग को मूलभूत सुविधाएँ उपलब्ध करवाने के लिए संबल योजना आरंभ की गयी है। इसके माध्यम से गरीब परिवारों को पट्टा, आवास, शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार आदि सुविधा प्रदान की जा रही है। संबल योजना में गरीब परिवारों के प्रतिभावान बच्चों को उच्च शिक्षा के लिए राज्य सरकार हर तरह की सुविधाएँ और सहायता मुहैया करवा रही है। उन्होंने लोगों से कहा कि बच्चों की उच्च शिक्षा के ख़र्च की चिन्ता छोड़कर उन्हें ख़ूब पढ़ायें, पूरी व्यवस्था राज्य सरकार करेगी। श्री चौहान ने बताया कि ग़रीब परिवारों के भारी-भरकम बिजली के बिल माफ़ कर उन्हें मात्र 200 रूपये प्रति माह के मान से बिजली देने का निर्णय लिया गया है। सौभाग्य योजना की जानकारी देते हुए श्री चौहान ने कहा कि हर गाँव और मजरे टोले में बिजली पहुँच रही है। अब वह दिन दूर नहीं है, जब हर ग़रीब के घर में बिजली से उजाला होगा। मुख्यमंत्री ने 486 करोड़ 96 लाख रुपये लागत की महान (गुलाब सागर) परियोजना के प्रथम चरण का लोकार्पण किया। यह एक वृहद परियोजना है जो रामपुर नैकिन विकासखंड के खड्डी ग्राम की महान नदी पर निर्मित है। अमरपुर में इसके द्वितीय चरण का भूमि-पूजन रविवार को ही मुख्यमंत्री द्वारा किया गया है। इस योजना के पूर्ण होने पर तहसील रामपुर नैकिन, गोपद बनास, बहरी एवं सिहावल के 167 ग्रामों के 23 हजार 574 हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई सुविधा का विस्तार होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार ने 40 लाख हेक्टेयर में सिंचाईं की व्यवस्था की है। बाणसागर परियोजना के माध्यम से पूरे विन्ध्य क्षेत्र में सिंचाई सुविधाओं का विस्तार किया गया है। गुलाब सागर महान परियोजना के माध्यम से सीधी जिले में सिंचाई का विस्तार किया जा रहा है। इस योजना की पूर्णता के पश्चात् लाभान्वित कृषकों की आर्थिक एवं सामाजिक स्थिति में सुधार होगा, भू-जल स्तर में वृद्धि होगी, पशुओं को पर्याप्त चारा मिलेगा और पानी की उपलब्धता बढ़ेगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

एट्रोसिटी एक्ट

  देशभर में एट्रोसिटी एक्ट को लेकर हंगामा मचा हुआ है। राजनेताओं का घेराव किया जा रहा है। इस एससी/एसटी एक्ट के दुरुपयोग का एक ताजा मामला शहर में सामने आया है। जहां पीड़ित ने आरोपितों पर एससी-एसटी एक्ट की धाराएं बढ़ाने के लिए फर्जी जाति प्रमाण कोर्ट के सामने प्रस्तुत कर दिया। जांच में प्रमाण पत्र फर्जी पाए जाने के बाद कोर्ट के निर्देश पर एमपीनगर पुलिस ने फरियादी को अब आरोपित बनाते हुए उसके खिलाफ धोखाधड़ी की धाराओं में एफआईआर दर्ज कर ली है। अर्चना गैस एजेंसी के पास शक्ति नगर छोला निवासी 20 वर्षीय सोनू अहिरवार ने जून 2017 को छोला पुलिस में अशोक उर्फ नक्का, सोनू सिंह भदौरिया व अजय अहिरवार के खिलाफ मामला दर्ज करवाया था कि इन्हों उसपर जानलेवा हमला किया है। इस दौरान सोनू ने अपने को अनुसूचित जाति का बताया। पुलिस ने उसकी शिकायत पर एफआईआर दर्ज कर ली थी। छोला पुलिस सोनू से उसका जाति प्रमाण पत्र जांच के दौरान काफी दिनों तक मांगती रही थी, लेकिन वह प्रस्तुत नहीं कर सका। शंका होने पर छोला पुलिस ने मामले में एससी-एसटी की धाराएं एसपी नार्थ से विचार विमर्श के बाद हटा लीं । पुलिस ने कोर्ट में इस मामले का चालान पेश किया तो कोर्ट ने एससीएसटी का प्रमाण पत्र मांगा, जिस पर पीड़ित सोनू अहिरवार ने जाति प्रमाण पत्र प्रस्तुत कर दिया था। कोर्ट ने यह प्रमाण पत्र छोला पुलिस को देकर इस जांच करवाई। छोला पुलिस ने संबंधित एसडीएम से इस प्रमाण पत्र की जानकारी मांगी तो वह फर्जी पाया गया। इसकी जानकारी पुलिस ने कोर्ट को दी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

shivraj singh

सुरखी में मुख्यमंत्री द्वारा 300 करोड़ रूपये के विकास कार्यों का शिलान्यास  सुरखी को नगर पंचायत बनाने एवं आईटीआई खोलने की घोषणा एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि गरीबी हटाने के हमने केवल नारे नहीं दिये, बल्कि गरीबों की जिन्दगी में खुशहाली लाने के ठोस इन्तजाम किये हैं। विकास के साथ जनता की जिन्दगी बदलने का अभियान शुरू किया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान बुधवार को सागर जिले के सुरखी में जेरा मध्यम सिंचाई परियोजना सहित 300 करोड़ रूपये के विकास कार्यों के भूमि-पूजन अवसर पर बोल रहे थे। इस मौके पर उन्होंने सुरखी को नगर पंचायत बनाने एवं सुरखी में आईटीआई खोलने की घोषणा की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि हमें डेढ़ दशक पहले बदहाल एवं बर्बाद प्रदेश मिला था, जिसमें न सड़कें थी, न सिंचाई के साधन थे, न बिजली थी, शिक्षा व्यवस्था चौपट थी, बच्चों का भविष्य अंधकार में था और लोगों की जिन्दगी में अंधेरा छाया हुआ था। हमने बदहाल प्रदेश को खुशहाल बनाया है। उन्होंने प्रदेश में संचालित जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी देते हुए लोगों से आग्रह किया कि योजनाओं का लाभ लेने के लिये आगे आयें। उन्होंने बताया कि समाज के कमजोर वर्ग को मूलभूत सुविधाऐं उपलब्ध कराने के लिये संबल योजना आंरभ की गयी है। गरीब परिवारों के भारी भरकम बिजली के बिल माफ कर उन्हे मात्र दो सौ रूपये प्रतिमाह के मान से बिजली देने का निर्णय लिया गया है। श्री चौहान ने इस मौके पर प्रदेश की तरक्की के लिये अपनी प्रतिबद्धता दोहराई। इस दौरान श्री चौहान ने कहा कि किसानों को जितना पैसा इस सरकार ने दिया है उतना उन्हें कभी नहीं मिला। हमने किसानों को उनके पसीने की पूरी कीमत देने की व्यवस्था की है। इन सिंचाई परियोजनाओं से बुंदेलखण्ड की खेती-किसानी की तस्वीर बदल जायेगी। उन्होंने 171 करोड़ रूपये के जेरा मध्यम सिंचाई परियोजना का भूमि-पूजन किया इससे लगभग 50 हजार एकड़ भूमि की सिंचाई होगी। साथ ही उन्होंने 13.86 करोड़ रूपये की कालीपठार सिंचाई परियोजना एवं 12.75 करोड़ रूपये की पड़रियाकलॉ बांध का भूमि-पूजन किया। कार्यक्रम में क्षेत्रीय विधायक श्रीमती पारूल साहू ने स्वागत भाषण दिया। इस अवसर पर वन मंत्री श्री गौरीशंकर शेजवार, गृह एवं परिवहन मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह, राज्यसभा सांसद श्री प्रभात झा, सागर सांसद श्री लक्ष्मीनारायण यादव, दमोह सांसद श्री प्रहलाद पटेल, बण्डा विधायक श्री हरवंश सिंह राठौर, श्री नारायण प्रसाद कबीरपंथी, राज्य महिला आयोग अध्यक्ष श्रीमती लता वानखेड़े सहित अन्य जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

shivraj singh

सुरखी में मुख्यमंत्री द्वारा 300 करोड़ रूपये के विकास कार्यों का शिलान्यास  सुरखी को नगर पंचायत बनाने एवं आईटीआई खोलने की घोषणा एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि गरीबी हटाने के हमने केवल नारे नहीं दिये, बल्कि गरीबों की जिन्दगी में खुशहाली लाने के ठोस इन्तजाम किये हैं। विकास के साथ जनता की जिन्दगी बदलने का अभियान शुरू किया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान बुधवार को सागर जिले के सुरखी में जेरा मध्यम सिंचाई परियोजना सहित 300 करोड़ रूपये के विकास कार्यों के भूमि-पूजन अवसर पर बोल रहे थे। इस मौके पर उन्होंने सुरखी को नगर पंचायत बनाने एवं सुरखी में आईटीआई खोलने की घोषणा की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि हमें डेढ़ दशक पहले बदहाल एवं बर्बाद प्रदेश मिला था, जिसमें न सड़कें थी, न सिंचाई के साधन थे, न बिजली थी, शिक्षा व्यवस्था चौपट थी, बच्चों का भविष्य अंधकार में था और लोगों की जिन्दगी में अंधेरा छाया हुआ था। हमने बदहाल प्रदेश को खुशहाल बनाया है। उन्होंने प्रदेश में संचालित जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी देते हुए लोगों से आग्रह किया कि योजनाओं का लाभ लेने के लिये आगे आयें। उन्होंने बताया कि समाज के कमजोर वर्ग को मूलभूत सुविधाऐं उपलब्ध कराने के लिये संबल योजना आंरभ की गयी है। गरीब परिवारों के भारी भरकम बिजली के बिल माफ कर उन्हे मात्र दो सौ रूपये प्रतिमाह के मान से बिजली देने का निर्णय लिया गया है। श्री चौहान ने इस मौके पर प्रदेश की तरक्की के लिये अपनी प्रतिबद्धता दोहराई। इस दौरान श्री चौहान ने कहा कि किसानों को जितना पैसा इस सरकार ने दिया है उतना उन्हें कभी नहीं मिला। हमने किसानों को उनके पसीने की पूरी कीमत देने की व्यवस्था की है। इन सिंचाई परियोजनाओं से बुंदेलखण्ड की खेती-किसानी की तस्वीर बदल जायेगी। उन्होंने 171 करोड़ रूपये के जेरा मध्यम सिंचाई परियोजना का भूमि-पूजन किया इससे लगभग 50 हजार एकड़ भूमि की सिंचाई होगी। साथ ही उन्होंने 13.86 करोड़ रूपये की कालीपठार सिंचाई परियोजना एवं 12.75 करोड़ रूपये की पड़रियाकलॉ बांध का भूमि-पूजन किया। कार्यक्रम में क्षेत्रीय विधायक श्रीमती पारूल साहू ने स्वागत भाषण दिया। इस अवसर पर वन मंत्री श्री गौरीशंकर शेजवार, गृह एवं परिवहन मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह, राज्यसभा सांसद श्री प्रभात झा, सागर सांसद श्री लक्ष्मीनारायण यादव, दमोह सांसद श्री प्रहलाद पटेल, बण्डा विधायक श्री हरवंश सिंह राठौर, श्री नारायण प्रसाद कबीरपंथी, राज्य महिला आयोग अध्यक्ष श्रीमती लता वानखेड़े सहित अन्य जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

anupm rajan

मध्यप्रदेश संचालनालय पुरातत्व, अभिलेखागार एवं संग्रहालय, मध्यप्रदेश द्वारा आयोजित दुर्लभ अभिलेखों एवं छायाचित्रों की प्रदर्शनी 'स्वाधीनता आन्दोलन 1857-1947' का उद्घाटन श्री अनुपम राजन, आयुक्त, पुरातत्व अभिलेखागार द्वारा राज्य संग्रहालय, श्यामला हिल्स, भोपाल में किया गया। उप संचालक, पुरातत्व अभिलेखागार एवं संग्रहालय डॉ. गीता सभरवाल द्वारा प्रदर्शित ऐतिहासिक अभिलेखों के संबंध में बताया कि स्वाधीनता आन्दोलन 1857-1947 विषय पर केन्द्रित इस प्रदर्शनी का आयोजन राज्य संग्रहालय, भोपाल में 29 अगस्त से 11 सितम्बर तक किया जा रहा है। प्रदर्शनी आम जनता के लिये प्रतिदिन प्रात: 10.30 बजे से सांयकाल 5.30 तक खुली रहेगी। प्रदर्शनी में प्रवेश नि:शुल्क है। उन्होंने बताया कि इस प्रदर्शनी का मुख्य उद्देश्य आम जनता, छात्रों एवं शोधार्थियों को स्वतंत्रता आन्दोलन से संबंधित गतिविधियों की जानकारी देना है। इस प्रदर्शनी में 1857 के प्रथम स्वतंत्रता आन्दोलन, असहयोग आन्दोलन (1920) सविनय अवज्ञा आन्दोलन (1930) एवं भारत छोड़ो आंदोलन (1942) से संबंधित महत्वपूर्ण ऐतिहासिक अभिलेख एवं छायाचित्र प्रदर्शित किये गये हैं

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

misrod

मिसरोद इलाके में तीन दिन पहले एक ड्राइवर पर उसकी कथित पत्नी के पति ने खोलता पानी फेंककर तवे से सीना और पीठ जला जला दिया था। उसे गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां उसकी मौत हो गई है। महिला को साथ रखने को लेकर ड्राइवर का आरोपित से विवाद था। पुलिस अफसरों का कहना है कि इसमें हत्या का मामला दर्ज किया जाएगा। मिसरोद पुलिस के अनुसार ग्राम छान में रहने वाला 35 वर्षीय सतीश सोनी प्राइवेट ड्राइवर था। वह कथित पत्नी के साथ कौशल नगर में किराए से रहता था। 26- 27 अगस्त की दरमियानी रात तीन बजे कथित पत्नी के पूर्व पति जितेंद्र मेहरा ने घर में घुसकर सतीश पर हमला किया। उस पर खौलता पानी फेंक दिया और गर्म तवे से उसकी पीठ और सीने को जला दिया था। इसकी जानकारी लगने के बाद मिसरोद थाने के एसआई ट्विंकल यादव जेपी अस्पताल लेकर पहुंचे थे। जहां से उसको हमीदिया रेफर किया गया था। मृतक के भाई संतोष सोनी ने बताया कि सतीश 20 फीसदी झुलसा था लेकिन उसे हमीदिया अस्पताल के डॉक्टर ने भर्ती करने से मना किया था। दोबारा लेकर गए तो उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई। ग्राम छान की एक महिला को लेकर सतीश और आरोपित जितेंद्र में विवाद था। मृतक के भाई के संतोष सोनी का कहना है कि महिला जितेंद्र मेहरा की पत्नी थी। उससे उसके दो बच्चे भी थे। वह काफी समय से बिना शादी के सतीश के साथ रह रही थी।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 शिवराज सिंह चौहान

राष्ट्रपति जीवनरक्षक पदक के लिये जांबाजों की होगी अनुशंसा एमपी के मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि जांबाज नागरिकों और सिपाहियों को राष्ट्रपति जीवनरक्षक पदक दिलवाने की अनुशंसा की जायेगी। दूसरों के लिये अपनी जान जोखिम में डालने वाले जांबाज ही समाज के असली हीरो होते हैं। श्री चौहान मुख्यमंत्री निवास पर शिवपुरी में अतिवर्षा से सुल्तानगढ़ स्थल पर फँसे नागरिकों को बचाने वाले जांबाज नागरिकों और सिपाहियों को सम्मानित कर रहे थे। उन्होंने चार नागरिकों को पाँच-पाँच लाख रूपये की सम्मान निधि भेंट की। जिला पुलिस बल के चार और राज्य अनुक्रिया बल ग्वालियर के तीन सदस्यों को पृथक से सम्मानित किये जाने के निर्देश दिये। पुलिस महानिदेशक श्री ऋषि कुमार शुक्ला, महानिदेशक नागरिक सुरक्षा और आपदा प्रबंधन श्री महान भारत सागर भी मौजूद थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अच्छे काम करने वालों की सराहना की जाना चाहिये। उन्होंने कहा विगत दिवस शिवपुरी जिले के मोहना के निकट सुल्तानगढ़ में फँसे नागरिकों को बचाने के कार्य में नागरिकों, राज्य आपदा अनुक्रिया बल, पुलिस और प्रशासन ने प्रशंसनीय कार्य किया है। उन्होंने बताया कि घटना की जानकारी मिलने पर वे रातभर जागकर स्थिति की जानकारी लेते रहे। केन्द्रीय रक्षा मंत्री, गृह मंत्री से चर्चा की। बचाव के लिये भारतीय वायु सेना का हेलीकाप्टर आया, उसने पाँच लोगों को बचाया। किन्तु मौसम खराब हो जाने से उसे वापस जाना पड़ा। ऐसे समय में जांबाज ग्रामीण साथी देवदूत बनकर सामने आये और पानी कम होने पर वे साहसपूर्वक तैरकर रस्से से पार ले गये। उनके साहस और सामाजिक कर्त्तव्य-बोध को देख कर ही उनको सम्मानित करने का निर्णय उन्होंने किया। उन्होंने बताया कि केन्द्रीय मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर और खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया भी घटना-स्थल पहुँची थी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नागरिक श्री रामदास पुत्र सभाराम, श्री भागीरथ पुत्र जलमा, श्री निजाम शाह पुत्र शंभू शाह और श्री कल्लन बाथम पुत्र रामजीलाल को पाँच-पाँच लाख रूपये की सम्मान निधि से सम्मानित किया। साथ ही राज्य अनुक्रिया बल ग्वालियर के उप निरीक्षक श्री प्रदीप कुमार, प्रधान आरक्षक श्री राजेश कुमार यादव, श्री गजेन्द्र सिंह कौरव को तथा जिला पुलिस बल के उप निरीक्षक श्री गोपाल चौबे, उपनिरीक्षक श्री सुरेन्द्र सिंह यादव, उप निरीक्षक श्री अमित शर्मा और आरक्षक श्री मुकेश यादव को सम्मानित करते हुए कहा कि उन्हें भी पृथक से सम्मान निधि दी जायेगी।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 शिवराज सिंह चौहान

राष्ट्रपति जीवनरक्षक पदक के लिये जांबाजों की होगी अनुशंसा एमपी के मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि जांबाज नागरिकों और सिपाहियों को राष्ट्रपति जीवनरक्षक पदक दिलवाने की अनुशंसा की जायेगी। दूसरों के लिये अपनी जान जोखिम में डालने वाले जांबाज ही समाज के असली हीरो होते हैं। श्री चौहान मुख्यमंत्री निवास पर शिवपुरी में अतिवर्षा से सुल्तानगढ़ स्थल पर फँसे नागरिकों को बचाने वाले जांबाज नागरिकों और सिपाहियों को सम्मानित कर रहे थे। उन्होंने चार नागरिकों को पाँच-पाँच लाख रूपये की सम्मान निधि भेंट की। जिला पुलिस बल के चार और राज्य अनुक्रिया बल ग्वालियर के तीन सदस्यों को पृथक से सम्मानित किये जाने के निर्देश दिये। पुलिस महानिदेशक श्री ऋषि कुमार शुक्ला, महानिदेशक नागरिक सुरक्षा और आपदा प्रबंधन श्री महान भारत सागर भी मौजूद थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अच्छे काम करने वालों की सराहना की जाना चाहिये। उन्होंने कहा विगत दिवस शिवपुरी जिले के मोहना के निकट सुल्तानगढ़ में फँसे नागरिकों को बचाने के कार्य में नागरिकों, राज्य आपदा अनुक्रिया बल, पुलिस और प्रशासन ने प्रशंसनीय कार्य किया है। उन्होंने बताया कि घटना की जानकारी मिलने पर वे रातभर जागकर स्थिति की जानकारी लेते रहे। केन्द्रीय रक्षा मंत्री, गृह मंत्री से चर्चा की। बचाव के लिये भारतीय वायु सेना का हेलीकाप्टर आया, उसने पाँच लोगों को बचाया। किन्तु मौसम खराब हो जाने से उसे वापस जाना पड़ा। ऐसे समय में जांबाज ग्रामीण साथी देवदूत बनकर सामने आये और पानी कम होने पर वे साहसपूर्वक तैरकर रस्से से पार ले गये। उनके साहस और सामाजिक कर्त्तव्य-बोध को देख कर ही उनको सम्मानित करने का निर्णय उन्होंने किया। उन्होंने बताया कि केन्द्रीय मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर और खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया भी घटना-स्थल पहुँची थी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नागरिक श्री रामदास पुत्र सभाराम, श्री भागीरथ पुत्र जलमा, श्री निजाम शाह पुत्र शंभू शाह और श्री कल्लन बाथम पुत्र रामजीलाल को पाँच-पाँच लाख रूपये की सम्मान निधि से सम्मानित किया। साथ ही राज्य अनुक्रिया बल ग्वालियर के उप निरीक्षक श्री प्रदीप कुमार, प्रधान आरक्षक श्री राजेश कुमार यादव, श्री गजेन्द्र सिंह कौरव को तथा जिला पुलिस बल के उप निरीक्षक श्री गोपाल चौबे, उपनिरीक्षक श्री सुरेन्द्र सिंह यादव, उप निरीक्षक श्री अमित शर्मा और आरक्षक श्री मुकेश यादव को सम्मानित करते हुए कहा कि उन्हें भी पृथक से सम्मान निधि दी जायेगी।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

आनन्दीबेन पटेल

राज्यपाल  पटेल द्वारा उज्जैन में संस्कृत विश्वविद्यालय में विभिन्न कार्यों का शुभारंभ मध्यप्रदेश की राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने उज्जैन में महर्षि पाणिनी संस्कृत वैदिक विश्वविद्यालय परिसर में नवनिर्मित महर्षि पतंजलि छात्रावास एवं संस्कृत शिक्षण-प्रशिक्षण, ज्ञान-विज्ञान संवर्द्धन-योग केन्द्र का शुभारम्भ किया। राज्यपाल ने कहा कि महर्षि पाणिनी संस्कृत विश्वविद्यालय के बटुक एक दिन महान राजनीतिज्ञ चाणक्य बनकर राष्ट्र को नई दिशा देंगे। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि आज यहां विश्वविद्यालय परिसर में शिक्षा प्राप्त करने वाले बेटे-बेटियों ने मिलकर 1111 पौधे रोपकर गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड में नाम दर्ज करवाकर विश्वविद्यालय को गौरव प्रदान किया है। यह देशवासियों के लिये एक अनुकरणीय उदाहरण है। राज्यपाल ने कहा कि पर्यावरण को स्वच्छ, संतुलित तथा स्वस्थ बनाये रखने की दिशा में ऐसे प्रयास निरन्तर होते रहने चाहिये। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि हमारी संस्कृति संस्कृत के बिना संभव नहीं है। इसमें मां-बेटी का सम्बन्ध है। संस्कृत मां है और उसकी बेटी संस्कृति है। राज्यपाल ने कहा कि संस्कृत केवल मातृभाषा ही नहीं है, एक विचार भी है। संस्कृत एक संस्कृति है, संस्कार है, सभ्यता भी है और वह आचार संहिता भी है। विश्व का सबसे उत्कृष्ट ज्ञान और विज्ञान है। संस्कृत सबका मूल है। राज्यपाल ने विश्वविद्यालय के कुलपति से कहा कि विश्वविद्यालय में सौर ऊर्जा का प्लांट लगाया जाये। उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री का कहना है कि सौर ऊर्जा क्षमता में वृद्धि का लाभ किसानों और आम लोगों तक पहुँचाना चाहिये। विश्वविद्यालय में स्वास्थ्य जाँच शिविर लगाये जायें और उसमें छात्राओं के स्वास्थ्य जांच पर विशेष ध्यान दिया जाना चाहिये। कार्यक्रम को विधायक डॉ.मोहन यादव ने भी संबोधित किया। शुरूआत में कुलपति प्रो.रमेशचंद्र पांडा ने विश्वविद्यालय के बारे में जानकारी दी। कार्यक्रम में राज्यपाल एवं अन्य अतिथियों ने कात्यायन शुल्बसूत्र, व्यक्तित्व का मनोविज्ञान एवं दर्शन आदि नाम की पुस्तकों का विमोचन किया। राज्यपाल ने विश्वविद्यालय की मीनाक्षी सेन को एमपीपीएससी में संस्कृत में सहायक अध्यापक का चयन होने पर सम्मानित किया। वहीं विश्वविद्यालय के एवं संबद्धता वाले महाविद्यालयों के संस्कृत में प्रथम आने पर छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने रूद्राक्ष का पौधा रोपा। अन्य अतिथियों और सैकड़ों छात्र-छात्राओं ने विद्यालय परिसर और विद्यालय के समीप की पहाड़ी पर एकसाथ पौध-रोपण किया। अंत में कुलसचिव श्री मनोज कुमार तिवारी ने आभार माना।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

वरिष्ठ पत्रकार कुलदीप नैयर

  जनसम्पर्क, जल संसाधन और संसदीय कार्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने वरिष्ठ पत्रकार श्री कुलदीप नैयर के निधन पर शोक व्यक्त किया है। मंत्री डॉ. मिश्र ने कहा कि श्री नैयर एक लोकप्रिय स्तंभ लेखक थे। ज्वलंत राष्ट्रीय मुददों पर उनकी लेखनी पाठकों को बहुत प्रभावित करती थी। मंत्री डॉ. मिश्र ने कहा कि स्व. नैयर दशकों तक सबसे ज्यादा पढ़े जाने वाले कलमकार बने रहे। जनसम्पर्क मंत्री डॉ. मिश्र ने स्व. नैयर की दिवगंत आत्मा की शांति और उनके शोकाकुल परिवार को यह दुख सहन करने की शक्ति देने की ईश्वर से विनती की है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

atal bihari vajpeyi

  प्रदेश की सात स्मार्ट सिटी में अटल जी के नाम पर बनेंगी विश्वस्तरीय लाइब्रेरी -  चौहान मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा है कि पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी की स्मृतियों को अक्षुण्ण बनाये रखने के लिये राज्य सरकार ने कई निर्णय लिये हैं। भोपाल और ग्वालियर में स्वर्गीय अटल जी की स्मृति में भव्य स्मारक बनाये जायेंगे। ग्वालियर के गोरखी के जिस विद्यालय में स्वर्गीय वाजपेयी कक्षा 6 से 8 तक पढ़े थे उसे उच्च गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के केन्द्र के रूप में विकसित किया जायेगा। इसमें स्मार्ट क्लास, प्लेनेटोरियम और म्यूजियम बनाया जायेगा, साथ ही स्वर्गीय अटल जी की प्रतिमा स्थापित की जायेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आज यहाँ मुख्यमंत्री निवास में कहा कि स्वर्गीय अटल जी की स्मृति में भोपाल और ग्वालियर में स्मृति वन स्थापित किये जायेंगे। जिनमें अटल जी की प्रतिमा के साथ उनके कार्यों को बेहतर ढ़ंग से प्रस्तुत किया जायेगा ताकि भावी पीढ़ी को प्रेरणा मिल सके। भोपाल में 600 करोड़ रूपये की लागत से बन रहे ग्लोबल स्किल पार्क का नाम स्वर्गीय अटल जी के नाम पर रखा जायेगा। प्रदेश के स्मार्ट सिटी के रूप में विकसित किये जा रहे सात शहरों भोपाल, इंदौर, जबलपुर, ग्वालियर, उज्जैन, सागर और सतना में स्वर्गीय अटल जी के नाम पर विश्वस्तरीय लाइब्रेरी स्थापित की जायेगी। इन लाइब्रेरियों को सेंटर ऑफ एक्सीलेंस के रूप में युवाओं के लिये कोचिंग, शोध और सामाजिक चिंतन के केन्द्र के रूप में विकसित किया जायेगा। इसी तरह सात स्मार्ट सिटी में बन रहे इनक्यूबेशन सेंटर्स का नाम स्वर्गीय अटल जी के नाम पर रखा जायेगा। इन सेंटरों पर मध्यप्रदेश के युवाओं को स्टार्टअप स्थापित करने की सुविधाएं उपलब्ध करायी जायेंगी। स्वर्गीय अटल जी की जीवनी स्कूली शिक्षा के पाठ्यक्रम में होगी मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि स्वर्गीय अटल जी की जीवनी अगले वर्ष से स्कूली शिक्षा के पाठ्यक्रम में शामिल की जायेगी। स्वर्गीय अटल जी के नाम से तीन राष्ट्रीय पुरस्कार स्थापित किये जायेंगे। पाँच-पाँच लाख रूपये के यह पुरस्कार कविता, पत्रकारिता और सुशासन के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वालों को दिये जायेंगे। प्रदेश में श्रमिकों के बच्चों के लिये बनाये जा रहे चार श्रमोदय विद्यालयों के नाम भी स्वर्गीय अटल जी के नाम पर रखे जायेंगे। विदिशा में शुरू हो रहे मेडिकल कॉलेज का नाम भी स्वर्गीय अटल जी के नाम पर रखा जायेगा। भोपाल के अत्याधुनिक हबीबगंज रेल्वे स्टेशन का नाम स्वर्गीय अटल जी के नाम पर करने के लिये केन्द्रीय रेलमंत्री से आग्रह किया जायेगा। 21 अगस्त को भोपाल में श्रद्धांजलि सभा मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आगामी 21 अगस्त को भोपाल में समाज का हर वर्ग स्वर्गीय अटल जी को श्रद्धांजलि दें इसके लिये रविन्द्र भवन के मुक्ताकाश में श्रद्धांजलि सभा आयोजित की जायेगी। आगामी 22 से 25 अगस्त बीच सभी जिला मुख्यालय में तथा आगामी 25 से 30 अगस्त के बीच सभी विकासखण्ड और ग्राम पंचायतों में भी श्रद्धांजलि सभा आयोजित की जायेगी। स्वर्गीय अटल जी के अस्थियों को नर्मदा सहित प्रदेश की सभी प्रमुख नदियों में प्रवाहित किया जायेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि केरल के बाढ़ प्रभावितों के लिये राज्य सरकार द्वारा दस करोड़ रूपये की सहायता राशि भेजी जायेगी। उन्होंने प्रदेशवासियों से भी अपील की है कि संकट की इस घड़ी में अपने सामर्थ्य के अनुसार केरल के बाढ़ प्रभावितों को सहयोग करें। इसके लिये मुख्यमंत्री सहायता कोष में केरल सहायता के नाम से खाता क्रमांक 37885301406 स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, बल्लभ भवन शाखा में राशि जमा करा सकते हैं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

सुलोचना

सिवनी जिले के ग्राम जमुनिया की 13 वर्षीय बालिका सुलोचना अक्सर बीमार रहती थी। कुछ नासमझी और कुछ आर्थिक स्थिति के कारण उसका कभी  ढंग का इलाज नहीं हुआ। सुलोचना की किस्मत कहिये कि एक दिन आरबीएसके की टीम गांव पहुँच गई। टीम ने जाँच में सुलोचना को गंभीर हृदय रोग से ग्रसित पाया। जिला प्रशासन की मदद से 24 जुलाई को नागपुर के श्रीकृष्णा हास्पिटल में उसकी हार्ट सर्जरी हुई। ऑपरेशन तो सफल रहा पर सुलोचना ठीक से अपने पैरों पर खड़ी नहीं हो पा रही थी। उसका स्कूल जाना भी बंद हो गया। माता-पिता हैरान-परेशान थे। लगभग एक साल तक ऐसी ही स्थिति में रहने से सुलोचना का मनोबल गिरने लगा था। उपचार के दौरान होम्योपैथी चिकित्सक डॉ. तारेन्द्र डेहरिया ने सुलोचना और उसके माता-पिता को ढांढस बंधाया कि होम्योपैथिक इलाज से वह ठीक हो सकती है। डॉ. डेहरिया ने 6 माह तक सुलोचना का नि:शुल्क उपचार किया। अब सुलोचना अपने पैरों पर खड़ी होने के साथ ही चलने भी लगी है। डॉक्टर का विश्वास है कि जल्दी ही सुलोचना दौड़ने और खेलने-कूदने लगेगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

shivraj singh

मध्यप्रदेश में गरीब तबकों के दिव्यांगों को राज्य शासन की ओर से व्हील चेयर, हियरिंग मशीन, ट्रॉयसिकल आदि का नि:शुल्क वितरण किया जा रहा है। इससे दिव्यांगों की परिजनों पर निर्भरता कम हुई है। साथ ही, दिव्यांग व्यक्ति का मनोबल भी बढ़ रहा है।  उस्मान को मिली व्हील चेयर : नीमच में कलेक्टर श्री राकेश श्रीवास्तव ने जन- सुनवाई के दौरान गैंगरिन में एक पाँव गँवा चुके उस्माल अली को व्हील चेयर दिलवाई। व्हील चेयर मिलने के बाद उस्मान और उसकी पत्नी शमीम बानो के चेहरे की खुशी देखने लायक है। कलेक्टर ने जन-सुनवाई में 197 दिव्यांगों की समस्याएँ सुनी और निराकरण भी किया।  अब सुनता है राममनोहर : सीधी में जन-सुनवाई के दौरान कलेक्टर ने कोठार गाँव के 65 वर्षीय रामनोहर सिंह को कान की मशीन दिलवाई। राममनोहर ने बताया था कि सुनने में दिक्कत होने के कारण जिन्दगी कठिनाईयों से भर गई है। मशीन खरीदने की क्षमता है नहीं। मौके पर ही राममनोहर की समस्या का निदान होने से वह भी शासन की तरीफ के पुल बांध रहे है। अब अच्छे से सुनता है सबकी बात।  रवि को मिली ट्रायसिकल : दिव्यांग रवि केवट दोनों पैर खराब होने से कहीं आना-जाना नहीं कर पाता है। अगर ट्रायसिकल मिल जाये तो वह खुद आना-जाना कर सकेगा और अपने कामों को करने में किसी की सहायता नहीं लेनी पड़ेंगी। रवि की परेशानी को जिला प्रशासन ने समझा। जिला कलेक्टर ने उसे नि:शुल्क ट्रायसिकल दी है। अब रवि किसी का मोहताज नहीं है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

atal ji-shivraj singh

  पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का स्वास्थ्य खराब होने के बाद एम्स में इलाज चल रहा है। इस दौरान मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुरुवार की अपनी जनआशीर्वाद यात्रा को स्थगित कर दिया। मुख्यमंत्री शिवराज ने कहा कि अटलजी की उपस्थिति मात्र से हमको हौसला मिलता है। वो हमारे बीच बने रहें यही हमारी प्रार्थना है। अटलजी की कविताओं से सभी को प्रेरणा मिलती है। स्वतंत्रता दिवस पर उनकी कविता का उल्लेख किया था। सीएम शिवराज ने कहा कि विदिशा से चुनाव लड़ने के दौरान मैं उनके करीब आया था। जब भी उनसे मिलता था तो वे मुझे विदिशापति कहते थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 मेधावी विद्यार्थी योजना

  प्रदेश पुलिस की उपलब्धियां अनंत:चौहान मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि ‘मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी योजना’ में वार्षिक आय सीमा को 6 से बढ़ाकर 8 लाख रुपये वार्षिक किया गया है। इससे पुलिस परिवार के प्रतिभावान बच्चों को भी उच्च शिक्षा में सुविधा होगी। बच्चों की शिक्षा के लिये और भी जो करना होगा, अवश्य किया जायेगा। पुलिस परिवारों की शिक्षा स्वास्थ्य और आवास सुविधाओं को बेहतर करने के कार्य निरंतर हो रहे हैं। बुनियादी सुधार के प्रयासों को भी विस्तारित किया जायेगा। श्री चौहान आज प्रदेश पुलिस के पदक विजेता अधिकारियों-कर्मचारियों और उनके परिजनों को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि पुलिस विपरीत परिस्थितियों में कार्य करती है उनके परिवार का जीवन भी कठिनाई में रहता है इसी लिये पुलिस परिवार के प्रति उनका विशेष स्नेह और लगाव है। उनके लिये बेहतर से बेहतर कैसे किया जाये। इसके प्रयास निरंतर कर रहे हैं। पुलिस हाउसिंग कार्पोरेशन द्वारा निरंतर आधुनिक सुविधा संपन्न मकान बनाये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने आंतरिक सुरक्षा और कानून व्यवस्था के लिये कर्तव्यों का निर्वहन करते हुए वीरगति को प्राप्त करने वाले पुलिस के जवान को भी शहीद का सम्मान दिया है। उन्हें भी सेना के वंदनीय शहीदों के समान ही शासन से मान-सम्मान मिलेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था आंतकवादी गतिविधियों आदि को नियंत्रित करने में पुलिस की उपलब्धियां अनंत और गर्व का विषय है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने भी कटनी में बलात्कार के अपराधी को मात्र पांच दिन में सजा के मामले की जानकारी को प्रसारित करने के लिये कहा है। उन्होंने पुलिस को बधाई देते हुये कहा कि प्रकरण में पुलिस द्वारा की गयी त्वरित कार्रवाई, अनुसंधान और चालान प्रस्तुत करने के कार्य तत्परता और उत्कृष्टता के साथ किये इसी से अपराधी को शीघ्र दंड मिला है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पुलिस के आधुनिकीकरण के प्रयास निरंतर जारी हैं। प्रदेश में पल-पल की खबर रखने के लिये देश में संभवत: सर्वाधिक 11 हजार सी.सी.टी.व्ही. कैमरे लगाये हैं। आज सेफ सिटी मॉनीटरिंग एवं रिस्पॉस सेन्टर का भी लोकार्पण हुआ है। डॉयल-100 के मोबाईल एप, डॉयल-100 सेवा में जोड़े जा रहे। डॉयल-100 में मोटर साइकिल को भी शामिल किया गया है। ताकि जनता को आवश्यकतानुसार गलियों में भी पुलिस की सेवाएं प्राप्त हो सकें। कार्यक्रम के प्रारंभ में पुलिस महानिदेशक श्री ऋषिकुमार शुक्ला ने स्वागत उद्बोधन दिया पुलिस आधुनिकीकरण की स्थिति और आवश्यकताओं की जानकारी दी। आभार प्रदर्शन अतिरिक्त महानिदेशक विशेष सशस्त्र बल श्री विजय यादव ने किया।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

आनंदीबेन पटेल

राष्ट्रपति पदक प्राप्त पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों से भेंट  एमपी की राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल से आज मध्यप्रदेश पुलिस के राष्ट्रपति पदक प्राप्त पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों ने भेंट की। राज्यपाल ने बधाई और शुभकामनाएँ देते हुए कहा कि मध्यप्रदेश देश का प्रथम राज्य है, जहां नाबालिगों से दुष्कर्म के मामलों में फांसी की सजा का प्रावधान किया गया है। बच्चियों से दुष्कर्म के मामले में पुलिस अधिकारियों/कर्मचारियों द्वारा त्वरित कार्यवाही एवं न्यायालय में साक्ष्य प्रस्तुतीकरण के कारण दोषियों को कम से कम समय में दण्डित किया जा रहा है। पुलिस की ही निरंतर और प्रभावी कोशिशों के चलते  मध्यप्रदेश में कानून-व्यवस्था संतोषजनक है पुलिस को अपनी जन-हितैषी छवि को और पुख्ता बनाने की आवश्यकता है। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि  उन्नत तकनीकी,  इंटरनेट एवं सोशल मीडिया के कारण साइबर अपराधों में वृद्धि हो रही है। अपराधों की रोकथाम तथा कानून व्यवस्था की स्थिति बेहतर बनाये रखने के लिए पुलिस आधुनिकीकरण पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है।  साहसी,  कर्मठ और बहादुर पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों को पदक से सम्मानित किया जाना समूचे प्रदेश के लिये गौरव और अभिमान का प्रसंग है। राज्यपाल ने कहा कि महिला अपराधों के प्रति जागरुकता तथा बच्चियों एवं महिलाओं को आत्मरक्षा के लिए सशक्त बनाने के उद्देश्य से पुलिस द्वारा कई नवाचार किए जा रहे हैं। प्रदेश के 12 जिलों के 180 थानों में URJA डेस्क (अरजेन्ट रिलीफ एण्ड जस्ट एक्शन डेस्क) स्थापित की जा रही हैं। पुलिस महानिदेशक श्री ऋषि कुमार शुक्ला, ने पुलिस की गतिविधियों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि मध्यप्रदेश पुलिस प्रदेश को सुरक्षित बनाये रखने के प्रति कटिबद्ध है। उन्होंने कहा कि महिलाओं के खिलाफ उत्पीड़न और बलात्कार की घटनाओं को पुलिस ने चुनौति के रूप में लिया है। त्वरित कार्यवाही करते हुए बच्चियों से बलात्कार के 10 मामलों में दोषियों को फांसी की सजा दिलाई है। इस अवसर पर म.प्र. पुलिस हाउसिंग कार्पोरेशन के चेयरमेन, श्री विजय कुमार सिंह, विशेष महानिदेशक, पुलिस सुधार श्री मैथिलीशरण गुप्त, राज्यपाल के सचिव श्री डी.डी.अग्रवाल तथा पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी और पदक प्राप्त अधिकारियों और कर्मचारियों के परिजन उपस्थित थे। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक,विसबल श्री विजय यादव ने आभार व्यक्त किया।      

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

मुख्यमंत्री  चौहान का स्वतंत्रता दिवस पर संदेश  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि नागरिकों के सक्रिय सहयोग और भागीदारी से समृद्ध मध्यप्रदेश का निर्माण होगा। उन्होंने नागरिकों से समृद्ध मध्यप्रदेश बनाने के लिये सुझाव माँगे। श्री चौहान ने कहा कि जनजातीय क्षेत्रों में हर गाँव में जनजातीय अधिकार सभा बनाई जायेगी। इस सभा को स्थानीय विकास और संसाधनों के उपयोग के संबंध में निर्णय लेने का अधिकार होगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में निवेश करने वाली जो औद्योगिक इकाई रोजगार उपलब्ध करायेगी, उसे शासकीय रियायतों में प्राथमिकता दी जायेगी। श्री चौहान आज स्थानीय लाल परेड ग्राउंड पर राज्य स्तरीय स्वतंत्रता दिवस समारोह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने समारोह में परेड की सलामी ली। श्री चौहान ने उन सभी अमर शहीदों को श्रद्धांजलि दी, जिनके बलिदान से भारत को आजादी मिली। उन्होंने कहा कि अपना कर्तव्य निभाते हुए शहीद हुए जवानों के परिवारों को एक करोड़ रूपये की सम्मान निधि दी जायेगी। इसमें से 40 प्रतिशत राशि शहीदों के माता पिता के खातों में डाली जायेगी और बाकी शहीद के उत्तराधिकारी को दी जायेगी। माता-पिता को आजीवन पाँच हजार रूपये की पेंशन भी दी जायेगी। यदि शहीदों के बच्चे शहरों में पढ़ने आते हैं, तो उन्हें फ्लैट की सुविधा दी जायेगी। हर साल 14 अगस्त को प्रदेश में शहीद सम्मान दिवस मनाया जायेगा। श्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में एक सशक्त और समृद्ध भारत का निर्माण हो रहा है। नये भारत का निर्माण करने के लिये नये मध्यप्रदेश का निर्माण करना जरूरी है। हम बीमारू राज्य से प्रगतिशील और अब विकसित राज्य की ओर बढ रहे हैं। अब समद्ध मध्यप्रदेश बनाना है। श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश हर क्षेत्र में आगे है। भरपूर बिजली है। भरपूर सिंचाई हो रही है। नर्मदा को गंभीर नदी से जोड़ा जा रहा है। इसके बाद पार्वती और कालीसिंध नदियों से जोड़ा जायेगा। श्री चौहान ने कहा कि किसानों की समृद्धि राज्य सरकार की पहली प्राथमिकता है। किसानों को कई राहतें दी गई हैं। उन्हें उनकी उपज का पूरा दाम दिया गया है। उन्होंने कहा कि किसानों को प्रति हेक्टेयर के हिसाब से सहायता देने पर भी विचार किया जाना चाहिये। प्रति व्यक्ति आय बढ़ी है, लेकिन इसे और बढ़ाने की आवश्यकता है। गरीबों को पक्का मकान बनाने के लिये पट्टे दिये जा रहे हैं। कोई गरीब बिना मकान और जमीन के नहीं रहेगा। बिजली बिल माफ किये जा रहे हैं। बच्चों की पढ़ाई का खर्चा सरकार उठायेगी। इस साल के आखिर तक सभी घरों में बिजली होगी। उन्होंने कहा कि शिक्षा कर्मी बनाने की संस्कृति को समाप्त कर अध्यापक का सम्मानजनक पद बनाया गया है। बैतूल जिले से 'एक परिसर-एक स्कूल' का प्रयोग शुरू किया जा रहा है, जिसमें एक ही स्कूल परिसर में पढ़ाई के सभी आधुनिक संसाधन उपलब्ध होंगे। आगामी 17 अगस्त को 'मिल-बाँचे मध्यप्रदेश'' का शुभारंभ हो रहा है। उन्होंने सभी सक्षम नागरिकों से अपील की कि वे अपनी पसंद के स्कूल में जायें और बच्चों को पढायें, शिक्षाप्रद कहानियाँ सुनायें और किताबें दान में दें। श्री चौहान ने कहा कि योजनाबद्ध तरीके से छोटे तालाबों के निर्माण के लिये ग्राम सरोवर अभिकरण बनाया जायेगा। यह  अभिकरण पाँच वर्षों में पाँच हजार तालाब निर्मित करेगा। उद्योगों के जरिए रोजगार में वृद्धि के लिये अब उद्योगों को टैक्स में छूट देने के बजाय निवेश में सीधे सहायता देने के लिये औद्योगिक नीति में बदलाव किया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की आर्थिक स्थिति लगातार बेहतर बनी हुई है। हमारी विकास दर पिछले कई वर्षों में लगातार डबल डिजिट में रही है। यह  महत्वपूर्ण उपलब्धि है। गरीब परिवारों को सभी मूलभूत सुविधाएँ  जुटाने और गरीब परिवारों की आय बढ़ाने का काम किया जायेगा। गरीबों की चिंता दूर करेगी संबल योजना मुख्यमंत्री जन-कल्याण योजना 'संबल' की चर्चा करते हुए श्री चौहान ने कहा कि यह योजना प्रदेश की लगभग आधी आबादी की रोटी, कपड़ा, मकान, स्वास्थ्य, शिक्षा, बिजली, रोजगार जैसी मूलभूत चिंताओं को दूर करने का काम करेगी। एक जनवरी 2018 से ग्रामीण क्षेत्र में भू-खण्ड अधिकार अभियान में नौ लाख से अधिक परिवारों को भू-खण्ड अधिकार-पत्र दिए गए हैं। पहले वितरित भू-खण्ड अधिकार पत्रों को शामिल कर 35 लाख से अधिक परिवार को आवासीय भू-खण्ड मिल चुके हैं। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में 7 लाख से ज्यादा आवास बन गये हैं। सवा लाख आवासों का निर्माण पूरा हो गया है। ग्रामीण क्षेत्र के 94 प्रतिशत घरों में शौचालय सुविधा के साथ प्रदेश, देश के अग्रणी राज्यों में शामिल हो गया है। पंजीकृत श्रमिकों और संन्निर्माण कर्मकारों को अधिकतम 200 रूपये प्रति माह की दर से जुलाई माह से बिजली बिल देना प्रारंभ किया गया है। बिजली के क्षेत्र में आत्म-निर्भर होने के बाद अब लक्ष्य यह है कि हर नागरिक का घर बिजली से रोशन हो। सौभाग्य योजना के तहत 31 जिलों में सभी पात्र हितग्राहियों के घरों तक बिजली पहुँचाई जा चुकी है। अक्टूबर माह तक प्रदेश के हर घर में बिजली का प्रकाश लाने का हमारा लक्ष्य है। किसानों के खातों में जमा कराये 35 हजार करोड़ मुख्यमंत्री ने कहा कि खेती की आय को पाँच वर्षों में दोगुना करने के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिये सिंचाई का रकबा बढाया जा रहा है। अभी 40 लाख हेक्टेयर है। इसे बढाकर 80 लाख हेक्टेयर कर दिया जायेगा। इस वर्ष फसल बीमा, मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि, भावांतर भुगतान, प्राकृतिक आपदाओं से फसल क्षति और अन्य विभिन्न योजनाओं से किसानों के खातों में सीधे 35 हजार करोड़ रूपये की राशि पहुँचायी गयी है। कृषि के सहयोगी क्षेत्रों को भी भरपूर बढ़ावा दिया जा रहा है। नियमों में संशोधन करते हुए राहत राशि को 30 हजार रूपये प्रति हेक्टेयर कर दिया गया है। इस वर्ष केला फसल क्षति राहत 27 हजार से बढ़ाकर एक लाख रुपये प्रति हेक्टेयर और अधिकतम 3 लाख रुपये प्रति कृषक की गई है, जिससे बुरहानपुर के केला उत्पादक किसानों को आपदा की घड़ी में सरकार का संबल मिला। श्री चौहान ने कहा कि भूमि-स्वामी और बटाईदार के हितों का संरक्षण करने के लिए कानून बनाने वाला मध्यप्रदेश पहला राज्य है। अब भूमि-स्वामी निश्चिंत होकर अपनी भूमि पाँच वर्ष तक बटाई पर दे सकेगा। स्मार्ट सिटी परियोजना में निवेश होगा 20 हजार करोड़ श्री चौहान ने कहा कि स्मार्ट सिटी परियोजना में सात शहर भोपाल, इंदौर, जबलपुर, ग्वालियर, उज्जैन, सतना और सागर शामिल है। इन शहरों में पुनर्घनत्त्वीकरण और पुनर्निर्माण पर जोर दिया जा रहा है। इस परियोजना में 20 हजार करोड़ रूपये निवेश की योजना है। स्वच्छता सर्वेक्षण में पूरे देश में नगर निगम इंदौर प्रथम और नगर निगम भोपाल द्वितीय स्थान पर लगातार दूसरे वर्ष भी रहे हैं। अगले 3 वर्षों में प्रदेश का कोई भी नगरीय निकाय ऐसा नहीं होगा, जहाँ पेयजल परियोजना अधूरी हो अथवा पेयजल का संकट हो। मुख्यमंत्री ने बताया कि सड़कों के विकास में विशेष रूप से निवेश किया है। निरंतर विकास की प्रक्रिया आगे भी जारी है। सरकार 6,600 कि.मी. की सड़कों का निर्माण/उन्नयन और 3,200 कि.मी. सड़कों के नवीनीकरण का कार्य कर रही है। सभी संभागीय मुख्यालयों को फोर-लेन तथा सभी जिला मुख्यालयों को टू-लेन से जोड़ने का कार्य आने वाले समय में प्राथमिकता से पूरा किया जाएगा। इसके अतिरिक्त चंबल एक्सप्रेस-वे जैसी महत्त्वपूर्ण सड़क निर्माण परियोजनाओं पर जोर दिया जा रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों में आने वाले समय में एक भी गाँव ऐसा नहीं बचेगा, जो बारहमासी सड़कों से जुड़ा ना हो। आयुष्मान भारत योजना से लाभान्वित होंगे एक करोड़ 15 लाख परिवार प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा गरीबों के स्वास्थ्य के लिए शुरू की गई आयुष्मान भारत योजना की चर्चा करते हुए श्री चौहान ने कहा कि इस योजना के तहत प्रत्येक गरीब परिवार को पाँच लाख रुपये तक के नि:शुल्क इलाज की व्यवस्था  की गई है। योजना में राज्य के लगभग 75 लाख परिवारों को शामिल किया गया है। राज्य सरकार ने एक कदम आगे जाकर  22 अन्य श्रेणी के परिवारों को भी इस योजना में शामिल कर लिया है। इस कदम से आयुष्मान भारत योजना का लाभ प्रदेश के लगभग एक करोड़ 15 लाख परिवार ले सकेंगे। श्री चौहान ने कहा कि इस शिक्षा सत्र से दतिया, विदिशा, खण्डवा, रतलाम में नये मेडिकल कॉलेज शुरू कर एमबीबीएस पाठ्यक्रम में 500 सीट की वृद्धि की गई है। सिवनी और छतरपुर में नए मेडिकल कॉलेज की स्वीकृति प्रदान की गई है। इस प्रकार, आने वाले समय में शहडोल, शिवपुरी, सतना तथा छिंदवाड़ा सहित 6 नए मेडिकल कॉलेज प्रदेश में और कार्य करना प्रारंभ कर देंगे। 'एक परिसर-एक शाला'' मुख्यमंत्री ने कहा कि स्कूली शिक्षा में गुणवत्ता के सुधार के लिए “एक परिसर-एक शाला” की अवधारणा प्रारंभ की जा रही है। इसके तहत एक परिसर में चलने वाली सभी तरह की शालाओं का एकीकरण कर उन्हें एक ही विद्यालय के रूप में चलाया जाएगा। इससे शिक्षकों के साथ-साथ अन्य संसाधनों का बेहतर उपयोग हो पाएगा। उन्होंने बताया कि स्कूलों में शिक्षा कर्मी व्यवस्था को समाप्त करते हुए अध्यापक संवर्ग और संविदा शिक्षकों का शिक्षा एवं जनजातीय कल्याण विभाग में संविलियन किया गया है। महाविद्यालयों में काफी समय बाद नियमित प्राध्यापकों की नियुक्ति की प्रक्रिया प्रारम्भ कर दी गयी है। इस वर्ष से मुख्यमंत्री जन-कल्याण योजना में पंजीकृत श्रमिकों के पुत्र-पुत्रियों को भी इसी योजना का लाभ मिलेगा।  हर साल साढ़े सात लाख युवाओं का कौशल संवर्धन श्री चौहान ने कहा कि युवा सशक्तिकरण मिशन के तहत राज्य सरकार ने प्रति वर्ष साढ़े सात लाख युवाओं के कौशल संवर्धन का लक्ष्य रखा है। भोपाल में सिंगापुर के सहयोग से 645 करोड़ का विश्व-स्तरीय ग्लोबल स्किल पार्क स्थापित किया जा रहा है। युवाओं को रोजगार देने के लिए राज्य सरकार द्वारा बड़े पैमाने पर जिला मुख्यालयों पर रोजगार मेले लगाए गए, जिनमें लगभग सवा लाख युवाओं को नौकरियाँ प्रदान की गईं। राज्य शासन की स्व-रोजगार से जुड़ी योजनाओं के तहत लगभग एक लाख युवाओं को इसी महीने विशेष शिविर आयोजित कर पूरे प्रदेश में ऋण स्वीकृति-पत्र प्रदान किए गए हैं। एमएसएमई विकास नीति 2017 में विभिन्न अनुदान का एकीकरण कर इसे मध्यम, लघु तथा सूक्ष्म इकाईयों के लिए और आकर्षक बनाया गया है। प्रदेश में पिछले वर्ष दो लाख से अधिक एमएसएमई पंजीकृत हुईं हैं, जिसमें 1,400 करोड़ के निवेश के साथ 5 लाख लोगों को रोजगार मिला है। जनजातीय कल्याण पर खर्च होंगे दो लाख करोड़ मुख्यमंत्री ने बताया कि अगले 5 वर्षों में प्रदेश में जनजातीय कल्याण पर दो लाख करोड़ रुपए के कार्य किए जाएंगे, जिससे समस्त जनजातियों का सर्वांगीण विकास होगा। इस वर्ष 9 अगस्त को जनजातीय कल्याण की दिशा में एक नया कदम उठाते हुए अंर्तराष्ट्रीय आदिवासी दिवस को समारोह पूर्वक मनाया। अनुसूचित विकासखंडों के प्रत्येक ग्राम में जनजातीय अधिकार सभा का गठन होगा। विशेष रूप से पिछड़ी जनजातियों में कुपोषण की समस्या को देखते हुए प्रत्येक परिवार के बैंक खाते में एक हजार रुपये प्रति माह का पोषण अनुदान जमा किया जा रहा है। अनुसूचित जातियों का सर्वांगीण विकास सरकार की प्राथमिकता में है। प्रति वर्ष साढ़े 22 लाख से अधिक विद्यार्थियों को हम 732 करोड़ रूपये से अधिक राशि की छात्रवृति एवं शिष्यवृति दे रहे हैं। साथ ही इन वर्गों के आर्थिक विकास के लिये पिछले वर्ष मुख्यमंत्री स्व-रोजगार योजना, युवा उद्यमी योजना एवं आर्थिक कल्याण योजना के तहत 11 हजार हितग्राहियों को लगभग 362 करोड़ की आर्थिक सहायता दी गई है। महिलाओं की सुरक्षा श्री चौहान ने कहा कि बालिकाओं से दुष्कर्म या सामूहिक बलात्कार के अपराध को मृत्यु-दण्ड से दण्डनीय बनाने वाला कानून विधानसभा से पास करवाने वाला मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य है। ऐसे अपराधों के निराकरण के लिए 50 विशेष न्यायालय कार्यरत हैं। पिछले छ: माह में बालिकाओं से दुष्कर्म के आठ प्रकरणों में अपराधियों को मृत्यु-दण्ड की सजा दी गई है। श्री चौहान ने कहा कि इस वर्ष भी नर्मदा तथा अन्य नदियों के केचमेंट सहित पूरे प्रदेश में उच्च गुणवत्ता के 7 करोड़ पौधे लगाये जाने की योजना पर कार्य किया जा रहा है। नर्मदा नदी के संरक्षण को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार द्वारा 'नर्मदा सेवा मिशन' गठित किया गया है। नर्मदा तट के 19 नगरीय निकाय में 1300 करोड़ की सीवरेज योजनाएँ प्रगति पर हैं। वनोपज संग्राहकों के कल्याण के लिए इस वर्ष राज्य सरकार ने अनेक कदम उठाए हैं। तेंदूपत्ता संग्राहकों को 2000 रूपये प्रति मानक बोरा राशि दी जा रही है, जो पिछले वर्ष से 60 प्रतिशत अधिक है। पहली बार 22 लाख 35 हजार तेंदूपत्ता संग्राहकों को जूता-चप्पल, पानी की बोतल तथा महिला संग्राहकों को साड़ी प्रदाय की गई है। गठित होगा लोक कलाकार मण्डल राज्य सरकार कला एवं संस्कृति के संरक्षण के लिये राज्य सरकार की प्रतिबद्धता दोहराते हुए मुख्यमंत्री ने बताया कि ओंकारेश्वर में आदिगुरू शंकराचार्य की प्रतिमा स्थापित की जा रही है। आचार्य शंकर सांस्कृतिक एकता न्यास गठित किया गया है। कला एवं संस्कृति को सहेजने के लिये लोक कलाकार मण्डल गठित किया जा रहा है। पाँच नये हिन्दी सेवा सम्मान शुरू किये गये हैं। मुख्यमंत्री तीर्थ-दर्शन योजना का लाभ हजारों वरिष्ठ नागरिकों ने लिया है। प्रदेश की 'स्पोर्टस हब' के रूप में पहचान बन रही है। बीते डेढ़ दशक में खेल अधोसंरचनाओं का उल्लेखनीय विकास हुआ है। राष्ट्रीय और अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर भी खिलाड़ी पदक जीत रहे हैं। राज्य शासन ने कर्मचारियों के कल्याण का पूरा ध्यान रखा है। कर्मचारियों और पेंशन-धारकों को सातवें वेतनमान का लाभ दिया गया है। उन्होंने कहा कि सुशासन के लिये समाधान एक दिन-तत्काल सेवा प्रदाय व्यवस्था में 34 सेवाओं को एक दिन में प्रदाय किया जा रहा है। सीएम हेल्प लाइन नागरिक केन्द्रित सेवा प्रदाय की पहल है। इसमें अब तक प्राप्त 95 प्रतिशत शिकायतों का निराकरण हो चुका है। प्रभावी अपराध नियंत्रण मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में कानून-व्यवस्था लगातार बेहतर रखने में सरकार सफल रही है। साम्प्रदायिक सौहार्द की दृष्टि से प्रदेश देश में मिसाल बना है। पिछले वर्षों में 161 नये पुलिस थाने तथा 111 नई पुलिस चौकियाँ स्थापित की गईं और 42 हजार 336 पदों पर भर्ती की गईं। महिलाओं के लिये 676 थानों में पृथक कक्ष के निर्माण की परियोजना में इस वर्ष 40 करोड़ का प्रावधान है। डॉयल-100 योजना से 50 लाख से भी अधिक पीड़ितों और जरूरतमंदों को मौके पर पुलिस सहायता मिली है। प्रदेश भर में संवेदनशील स्थानों पर 10 हजार सी.सी.टी.व्ही. कैमरे लगाकर अपराधों पर नियंत्रण की प्रभावी व्यवस्था करने वाला वाला मध्य प्रदेश पहला राज्य है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

shivraj singh

वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों को रोडमैप तैयार करने के दिये निर्देश  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मध्यप्रदेश को बीमारू राज्य से विकासशील और फिर विकसित राज्य बनाने के बाद अब समृद्ध राज्य बनाएंगे। उन्होंने आज यहां मंत्रालय में वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों के साथ समृद्ध मध्यप्रदेश का विज़न साझा किया। श्री चौहान ने विकास के सभी प्रमुख क्षेत्रों में समृद्ध मध्यप्रदेश बनाने का रोडमैप तैयार करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि बिजली, पानी, सड़क और अधोसंरचना निर्माण जैसे बुनियादी क्षेत्रों का रोडमेप पहले ही तैयार है और इन क्षेत्रों में अच्छी प्रगति हुई है। कृषि क्षेत्र में अब उत्पादन की चुनौती लगभग खत्म हो गई है। अब उत्पादन की गुणवत्ता, खाद्य प्र-संस्करण,  निर्यात, और दोगुना आय बढ़ाने जैसे विषयों पर ध्यान देना होगा। अब दूसरे देशों को भी कृषि उपज निर्यात करने पर ध्यान देने की जरूरत है ताकि किसानों को ज्यादा फायदा हो। मुख्यमंत्री ने कहा कि रोज़गार सृजन एक बड़ा और चुनौतीपूर्ण काम है। जितनी संख्या में युवा शिक्षित हो रहे हैं उसी अनुपात में ज्यादा से ज्यादा संख्या में उन्हें रोज़गार के अवसर मिलना चाहिए। रोज़गार अवसरों के सृजन के लिए रचनात्मक तरीके से सोचना होगा। संबल योजना के संबंध में अपना विजन बताते करते हुए श्री चौहान ने कहा कि संसाधनों पर गरीबों का अधिकार है और उन्हें मिलना चाहिये। यह सबकी साझा जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि महिलाओं के स्व-सहायता समूहों को बढ़ावा देकर गरीबी पर नियंत्रण किया जा सकता है। मुख्यमंत्री ने सभी वरिष्ठ अधिकारियों से कहा कि अब तक मध्यप्रदेश के निर्माण में जो हुआ है वह अभूतपूर्व है और इसके अच्छे परिणाम सामने हैं। अब एक कदम आगे बढ़ाते हुए समृद्ध मध्यप्रदेश बनाने का सपना साकार करना है। उन्होंने कहा कि अधिकारी अपनी प्रतिभा और अनुभव का उपयोग करते हुए समृद्ध मध्यप्रदेश बनाने का रोडमैप बनाये। सिर्फ अपने विभाग की योजनाओं तक सीमित न रहें। एक सम्पूर्ण सोच प्रस्तुत करें। उन्होंने यह भी कहा कि विभागीय बजट पर निर्भर रहकर काम करने की पारंपरिक सोच को छोड़कर रचनात्मक प्रयासों से आय के अतिरिक्त स्त्रोत और संसाधन निर्मित कर आगे बढ़ें। बजट से ज्यादा रचनात्मक दृष्टि और प्रतिबद्धता काम करती है। बैठक में वित्त मंत्री श्री जयंत मलैया, मुख्य सचिव श्री बी. पी. सिंह, अपर मुख्य सचिव और सभी विभागों के प्रमुख सचिव उपस्थित थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

umashankar gupta

  मैनिट चौराहा में 15 लाख की लागत से हाकर्स कार्नर बनया जायेगा। राजस्व, विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री  उमाशंकर गुप्ता ने हाकर्स कार्नर का भूमि-पूजन किया। श्री गुप्ता ने कहा कि हाकर्स कार्नर में उन्हीं को दुकान दें, जो दुकान चलायें। एक भी दुकान बद नहीं रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि टॉयलेट भी बनवायें। श्री गुप्ता ने कहा कि इमानदारी से दुकान चलायेंगे तो ग्राहकी अच्छी चलेगी। इस दौरान स्थानीय जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

pankaj singh

कमला नगर इलाके में यूपी की महिला अफसर से ज्यादती करने वाले डिप्टी कमिश्नर को मंगलवार शाम को कोर्ट में पेश किया गया। जहां से उसको जेल भेज दिया गया। एएसपी धर्मवीर सिंह के अनुसार यूपी के वाणिज्य विभाग के डिप्टी कमिश्नर पंकज सिंह को कमला नगर पुलिस ने मंगलवार को मेडिकल कराया और उसके बाद केार्ट में पेश किया । जहां से कोर्ट ने उनको जेल भेज दिया। उनके परिजनों ने घटना के बाद भोपाल पुलिस से संपर्क किया है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

थ्री स्टार होटल जैसा ओल्ड एज होम

समाज में कई बार बुजुर्गों को वह सम्मान नहीं मिल पाता जिसके वे हकदार हैं। आर्थिक रूप से संपन्न होने के बाद भी कई बार बुजुर्ग अकेलापन महसूस करते हैं। प्रदेश के ऐसे बुजुर्ग जो सेवानिवृत्त हो चुके हैं या किसी कारणवश अपने परिवार के साथ नहीं रहते या फिर बच्चे विदेश चले गए हैं। ऐसे बुजुर्गों के लिए ओल्ड एज होम बनेगा। यहां उनकी देखरेख के लिए तमाम संसाधन उपलब्ध रहेंगे। प्रमुख सचिव सामाजिक न्याय अशोक शाह ने कलेक्टर सुदाम पी खाडे को दोबारा पत्र लिखकर ओल्ड एज होम के लिए इनायतपुर कोलार की 4 एकड़ जमीन जल्द आवंटित करने के लिए कहा है। शाह ने पत्र में उल्लेख किया है कि आचार संहिता लागू होने से पहले जमीन का शिलान्यास किया जा सके इसलिए त्वरित कार्रवाई करें। जिला प्रशासन ने इससे पहले बड़बई जेल की पहाड़ियों में जमीन आवंटित कर दी थी। जो बुजुर्गों के हिसाब से अनुपयुक्त पाई गई। यहां पहाड़ी में जमीन होने के कारण बुजुर्गों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता। इसलिए कलेक्टर को दोबारा पत्र लिखकर कोलार के इनायतपुर की जमीन आवंटित करने के लिए कहा गया है। ओल्ड एज होम में रहने के लिए पहले आओ पहले पाओ की तर्ज पर रूम आवंटित होगा। इसके लिए यहां रहने वालों को हर साल फीस अदा करना होगी। इसमें एसी और नॉन एसी दोनों तरह के कमरे उपलब्ध रहेंगे। एसी कमरों के लिए अतिरिक्त शुल्क चुकाना पड़ेगा। कमरे भी सिंगल और डबल बेड के रहेंगे। इसे बनाने में करीब 15 करोड़ रुपए खर्च आएगा। ओल्ड एज होम में बुजुर्गों के मनोरंजन का पूरा ध्यान रखा जाएगा। यहां लाइब्रेरी, पार्क, पूजा व ध्यान कक्ष, विभिन्न खेल, वाई-फाई, योगा, वॉकिंग ट्रैक, ग्रॉसरी शॉप, स्टेशनरी, मैस, डॉक्टर सहित अन्य तमाम सुविधाएं उपलब्ध रहेंगी। लांड्री और दवाखाना आदि की व्यवस्था भी रहेगी। ओल्ड एज होम में शुरुआत में 100 बुजुर्गों के रहने की व्यवस्था रहेगी। ये बुजुर्ग उच्चाधिकारी के साथ, डॉक्टर, इंजीनियर, प्रोफेसर, व्यवसायी या किसी अन्य क्षेत्र से जुड़े हो सकते हैं। साहित्य में रुचि रखने वालों के लिए यहां गोष्ठी कक्ष भी बनाया जाना प्रस्तावित है। कलेक्टर सुदाम पी खाडे ने बताया ओल्ड एज होम बनाने के लिए इनायतपुर कोलार में 4 एकड़ जमीन दी आवंटित की जा रही है। फिलहाल यह जमीन आरक्षित कर दी है। प्रक्रिया चल रही है। जल्द ही जमीन आवंटित कर दी जाएगी।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

pcb mp

  छोटे तालाब में मछलियां मरने का मामला सामने आने के बाद नगर निगम के अधिकारियों ने पीसीबी से जांच के लिए कहा है। जांच होने के बाद पता चल पाएगा कि आखिर किस कारण मछलियां मर रही हैं। बता दें कि गत सोमवार को छोटे तालाब में खटलापुरा घाट के पास बड़ी संख्या में मछलियां मरी थीं। इससे पहले 2 जुलाई को सैकड़ों की संख्या में मरी हुई मछलियां मिलीं थीं।   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान

  एमपी के मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि हम जनता की जिंदगी बदलने के संकल्प के साथ कार्य कर रहे हैं। प्रदेश को बदलने, बच्चों का भविष्य निखारने, किसानों को पसीने की कीमत दिलाने, गरीब की जिंदगी को बेहतर बनाने और सबको न्याय दिलवाने के लिये दुनिया में जो कहीं नहीं हुआ, वह प्रदेश में करने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि पिछले एक वर्ष में शासकीय अनुदान और सहायता की विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत 33 हजार करोड़ रूपये किसानों के बैंक खातों में जमा करवाये गये हैं। श्री चौहान आज मुख्यमंत्री निवास में शिव आभार साइकिल यात्रा समापन समारोह को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गरीबों की जिंदगी का अंधेरा दूर करने के लिये संबल योजना संचालित की गई है। उन्होंने कहा कि सरकार का बजट पहले भी होता था, किन्तु कभी भी किसानों को सरकार से इतनी मदद नहीं मिली। श्री चौहान ने कहा कि कुनबी पटेल समाज आभार के लिये आया है, यह अत्यंत हर्ष का विषय है। उन्होंने कहा कि कुनबी पटेल समाज का स्नेह अनमोल है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा संचालित योजनाओं का लाभ अधिक से अधिक लोगों को प्राप्त कराने के लिये समाज प्रयास करे। उल्लेखनीय है कि शिव आभार यात्रा 29 जुलाई को खंडवा से प्रारंभ हुई थी। यह 6 दिवसीय यात्रा खंडवा से गांव-गांव होते हुए आज भोपाल पहुँची। खंडवा से भोपाल की 600 किमी की साइकिल यात्रा में बड़ी संख्या में युवाओं ने भाग लिया। समाज में सकारात्मकता का प्रसार किया।    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

   मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से आज यहाँ बोहरा समाज, इंदौर का प्रतिनिधि मंडल आमिल शब्बीर भाई नोमानी के साथ मिला। इस मौके पर श्री ताहिर भाई सेठजीवाला, खुजेमा भाई, श्री अम्मार फहीम, श्री मजहर भाई सेठजीवाला और श्री फिरोज भाई साईकिलवाला मौजूद थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

किशोर कुमार

भारतीय सिनेमा जगत के सुप्रसिद्ध कलाकार, संगीतकार और गायक श्री किशोर कुमार बहुआयामी प्रतिभा के धनी थे। खंडवा जिले में जन्मे श्री किशोर कुमार ने पूरे देश में मध्यप्रदेश का नाम रोशन किया। एमपी के जनसम्पर्क, जल-संसाधन और संसदीय कार्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने आज स्वर्गीय किशोर कुमार की जयंती पर उन्हें नमन करते हुए यह विचार व्यक्त किये। मंत्री डॉ. मिश्र ने पुरानी यादों को ताजा करते हुए कहा कि स्वर्गीय किशोर दा हरदिल अजीज और खुशमिजाज इंसान थे। उनकी यादें देशवासियों के दिलों में हमेशा कायम रहेंगी। डॉ. मिश्र ने कहा कि उन्होंने गायन, निर्देशन, अभिनय सहित विभिन्न विधाओं में अपनी पहचान बनाई थी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

शिवराज सिंह चौहान

मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा पिछोर में 2208 करोड़ की सिंचाई परियोजना का शिलान्यास  मध्यप्रदेश के सीएम मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने  शिवपुरी जिले के पिछोर तहसील मुख्यालय पर 2208 करोड़ की लागत की वृहद सिंचाई परियोजना का शिलान्यास करते हुए कहा कि आगामी दिनों में राज्य सरकार कृषि उपज की लागत में 50 प्रतिशत लाभांश जोड़कर समर्थन मूल्य निर्धारित करेगी। उन्होंने कहा कि इस तरह निर्धारित समर्थन मूल्य पर ही किसान की फसल की खरीदी प्रदेश सरकार करेगी। श्री चौहान ने इस अवसर पर मगरौनी कस्बे को नगर पंचायत का दर्जा दिये जाने की घोषणा की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि वृहद सिंचाई परियोजना से खनियाधाना और पिछोर क्षेत्र के ग्रामीण अंचलों में पेयजल व्यवस्था का भी प्रावधान किया गया है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में सिंचाई का रकबा 40 लाख हेक्टेयर तक पहुँचा दिया गया है। अब राज्य सरकार का लक्ष्य इसे 80 लाख हेक्टेयर तक पहुँचाने का है। मुख्यमंत्री ने शिलान्यास समारोह में उपस्थित जन-समुदाय को संबल योजना सहित महत्वपूर्ण योजनाओं की जानकारी दी। उन्होंने विभिन्न योजनाओं के हितग्राहियों को हित-लाभ भी वितरित किये। जनसम्पर्क, जल-संसाधन एवं संसदीय कार्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने बताया कि परियोजना की पूर्ण जल-ग्रहण क्षमता 371.80 मैट्रिक घनमीटर होगी और जल-ग्रहण क्षेत्र 1843 वर्ग किलोमीटर रहेगा। उन्होंने कहा कि परियोजना से पिछोर विधानसभा क्षेत्र के 208 ग्रामों में एक लाख 67 हजार एकड़, शिवपुरी विधानसभा क्षेत्र में 11 ग्रामों की 7 हजार एकड़, करैरा विधानसभा क्षेत्र में 87 ग्रामों की 67 हजार एकड़ और दतिया विधानसभा क्षेत्र में 37 ग्रामों की 32 हजार एकड़ कृषि भूमि में सिंचाई होगी। मुख्यमंत्री ने शिलान्यास समारोह की अध्यक्षता कर रहे पूर्व राजस्व मंत्री श्री लक्ष्मीनारायण गुप्ता को शॉल-श्रीफल से सम्मानित किया। उन्होंने पिछोर की कु. आशिया खान को बेडमिंटन नेशनल प्रतियोगिता में स्वर्ण-पदक हासिल करने पर सम्मानित किया। अपर मुख्य सचिव जल-संसाधन श्री आर.एस. जुलानिया ने परियोजना की जानकारी दी। समारोह में विधायक श्री प्रहलाद भारती, अन्य जन-प्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक और बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

shivraj singh

एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को आज नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्रीमती माया सिंह ने मध्यप्रदेश को नगरीय विकास में नवाचारों के लिये मिले राष्ट्रीय पुरस्कार सौंपे। ये पुरस्कार विगत 27-28 जुलाई को लखनऊ में आयोजित राष्ट्रीय नगरीय विकास कार्यशाला में मध्यप्रदेश को भारत सरकार द्वारा प्रदान किये गये हैं। इस अवसर पर महापौर  आलोक शर्मा, मुख्य सचिव  बसंत प्रताप सिंह,प्रमुख सचिव नगरीय विकास एवं आवास  विवेक अग्रवाल, भोपाल निगमायुक्त  अविनाश लवानिया, मुख्य कार्यपालन अधिकारी स्मार्ट सिटी  संजय कुमार भी मौजूद थे। उल्लेखनीय है कि विगत 28 जुलाई को प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने भोपाल स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में इन्टीग्रेटेड कमांड कंट्रोल सेन्टर के लिये भोपाल के महापौर श्री आलोक शर्मा और अमृत योजना में बाँड जारी करने के नवाचार के लिये इंदौर महापौर श्रीमती मालिनी लक्ष्मण गौड़ को राष्ट्रीय पुरस्कारों से अलंकृत किया था। इसके पूर्व 27 जुलाई को कार्यशाला में केन्द्रीय शहरी विकास, आवासीय एवं शहरी गरीबी उन्मूलन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री हरदीप सिंह पुरी ने मध्यप्रदेश को नगरीय विकास के क्षेत्र में नवाचारों के लिये चार राष्ट्रीय पुरस्कारों से सम्मानित किया था। ये पुरस्कार भोपाल के स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में पब्लिक बाइक शेयरिंग, बी-नेस्ट इंक्यूबेशन सेंटर और जबलपुर स्मार्ट सिटी के एनडीएमसी के स्मार्ट क्लॉस-रूम एवं वेस्ट टू एनर्जी प्लांट के लिये प्रदान किये गये।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

shivraj singh

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में आज हुई मंत्रि-परिषद की बैठक में नगरीय विकास एवं आवास विभाग की पारगमन उन्मुख विकास नीति-2018 (टीओडी नीति) का अनुमोदन किया गया। प्रदेश के शहर, शहरीकरण के बढ़ते दबाव और यातायात एवं परिवहन संबंधी समस्याओं से निपटने के लिये एक राज्य-स्तरीय टीओडी नीति बनाये जाने का निर्णय लिया गया। नीति में नगरीय क्षेत्रों में स्मार्ट विकास को बढ़ावा देने के लिये नगरीय तथा परिवहन से संबंधित हो रही समस्याओं को इस नीति के माध्यम से हल किया जायेगा। टीओडी नीति नागरिकों के निवास-स्थल एवं कार्य-स्थल के मध्य संबंध सुधारने के लिये सार्वजनिक परिवहन की दक्षता और स्थिरता में सुधार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

शिवराज सिंह चौहान

शुद्ध पेयजल के लिये 36 हजार घरों में नल कनेक्शन दिया जायेगा मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज पन्ना जिले के पवई एवं शाहनगर विकासखण्ड के 158 ग्रामों के लिये शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के लिये 211.32 करोड़ की लागत से ग्रामीण समूह जल प्रदाय योजना का शिलान्यास किया। इस योजना के अंतर्गत लगभग 36 हजार घरों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध हो सकेगा। इस अवसर पर श्री चौहान ने अमहा लघु सिंचाई नहर विस्तारीकरण योजना का भी शिलान्यास किया। इस अवसर पर जिले की प्रभारी राज्य मंत्री श्रीमती ललिता यादव, सांसद श्री नागेन्द्र सिंह, बुंदेलखण्ड विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री रामकृष्ण कुसमरिया और अन्य जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

स्मार्ट सिटी परियोजना

मंत्री ने दिए प्रोजेक्ट समय-सीमा में पूर्ण करने के निर्देश स्मार्ट सिटी परियोजना में चयनित प्रदेश के 7 शहर में 1610 करोड़ की लागत के 60 प्रोजेक्ट पूर्ण किए जा चुके हैं। वर्तमान में 2498 करोड़ के 139 प्रोजेक्ट प्रगति पर है। नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्रीमती माया सिंह ने सभी प्रोजेक्ट निर्धारित गुणवत्ता के साथ समय-सीमा में पूर्ण करने के निर्देश दिए हैं। मंत्री श्रीमती माया सिंह ने कहा कि देश के चुनिंदा शहरों में क्षेत्र आधारित विकास और पेन सिटी योजनाओं का क्रियान्वयन किया जा रहा है। इसी कड़ी में प्रदेश के सात शहर इंदौर, भोपाल, जबलपुर, ग्वालियर, उज्जैन, सागर और सतना का चयन तीन चरण में स्मार्ट सिटी के रूप में किया गया है। इन शहरों में 5 वर्षों में लगभग 20 हजार करोड़ के कार्य करवाया जाना प्रस्तावित है, जिन पर तेजी से कार्य किया जा रहा है। श्रीमती सिंह ने बताया कि प्रथम चरण-2015 में तीन शहर भोपाल, इंदौर और जबलपुर का चयन किया गया। इन शहरों में इंदौर में 96.91 करोड़ की लागत के 28 प्रोजेक्ट पूर्ण किए जा चुके हैं तथा 455.43 करोड़ रूपये के 46 प्रोजेक्ट प्रगति पर है। भोपाल स्मार्ट सिटी में 1207 करोड़ रूपये के 16 प्रोजेक्ट पूर्ण किए जा चुके हैं तथा 478 करोड़ के 22 प्रोजेक्ट प्रगति पर है। स्मार्ट सिटी जबलपुर में 287 करोड़ लागत के 11 प्रोजेक्ट पूर्ण किए जा चुके हैं तथा 377 करोड़ रूपये लागत के 30 प्रोजेक्ट प्रगति पर है। द्वितीय चरण-2016 में उज्जैन और ग्वालियर का चयन किया गया है। इनमें उज्जैन स्मार्ट सिटी में 19 करोड़ रूपये के 5 प्रोजेक्ट पूर्ण किए जा चुके हैं तथा 155 करोड़ की लागत के 17 प्रोजेक्ट प्रगति पर है। स्मार्ट सिटी ग्वालियर में 530 करोड़ की लागत के 21 प्रोजेक्ट प्रगति पर है, जो समय-सीमा में पूर्ण कर लिये जायेंगे। तृत्तीय चरण-2017 में सागर और सतना शहर का चयन किया गया है। स्मार्ट सिटी सागर में 1735 करोड़ के 27 प्रोजेक्ट तैयार किए गए हैं, इनमें 46 करोड़ के 2 कार्य प्रगति पर है। इसी क्रम में स्मार्ट सिटी सतना में 1438 करोड़ की लागत के 27 प्रोजेक्ट तैयार किए गए हैं। इनमें 51 लाख रूपये की लागत के एक प्रोजेक्ट पर कार्य प्रारंभ किया जा चुका है। शेष कार्य शीध्र प्रारंभ किए जायेंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

umashankar gupta

सरोजिनी नायडू कन्या महाविद्यालय के सामने बने महिला हॉकर्स कॉर्नर का नाम राजमाता विजयाराजे सिंधिया महिला हॉकर्स कॉर्नर होगा। राजस्व, विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री श्री उमाशंकर गुप्ता और महापौर श्री आलोक शर्मा ने हॉकर्स कॉर्नर का निरीक्षण किया। उन्होंने जल्द इसे शुरू करवाने के निर्देश दिये। श्री गुप्ता ने नेहरू नगर स्थित बापू नगर की झुग्गियों के सुनियोजित व्यवस्थापन की कार्य-योजना बनाने के निर्देश दिये। उन्होंने हाट-बाजार के लिये स्थल निरीक्षण भी किया। इस मौके पर स्थानीय जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

vidisha

 किसानों के खातों में पहुँचे 33 हजार करोड़ : गरीबों के 44 करोड़ बिजली बिल हुए माफ  मुख्यमंत्री द्वारा विदिशा जिले में 170 करोड़ के कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण  एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज विदिशा में हुए किसान सम्मेलन में घोषणा की कि आगामी अगस्त माह से विदिशा में मेडिकल कॉलेज शुरू किया जायेगा। इससे विदिशा तथा आसपास की जनता को गंभीर बीमारियों के लिये भी समुचित उपचार आसानी से मिल सकेगा। श्री चौहान ने एक लाख 33 हजार किसानों के बैंक खातों में फसल बीमा योजना की 445 करोड़ की बीमा राशि ऑनलाईन ट्रांसफर की। मुख्यमंत्री ने विदिशा जिले में 170 करोड़ रूपये लागत के निर्माण कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण किया। श्री चौहान ने कहा कि इस वर्ष किसानों से गेहूँ की खरीदी समर्थन मूल्य को जोड़कर 2 हजार रूपये क्विंटल के मान से की जा रही है। इसके अलावा चना, उड़द और मूंग आदि फसलों की खरीदी भी राज्य सरकार कर रही है, ताकि किसान को उसकी कृषि उपज का लाभकारी मूल्य आसानी से मिल सके। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की मंशा है कि खेती को हर हाल में लाभकारी व्यवसाय बनाया जाये। उन्होंने बताया कि प्रदेश के किसानों के बैंक खातों में गत एक साल के दौरान 33 हजार करोड़ रुपये से अधिक की राशि विभिन्न योजनाओं में जमा करवाई गई है। श्री चौहान ने बताया कि मध्यप्रदेश का सोयाबीन चीन को निर्यात करने के प्रयास किये जा रहे हैं। इसके लिये उच्च स्तर पर चर्चा चल रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि संबल योजना समाज के हर गरीब व्यक्ति के जीवन को खुशहाल बनाने के लिये क्रियान्वित की जा रही है। योजना में पंजीकृत असंगठित श्रमिकों तथा अन्य पात्र जरूरतमंद के 44 करोड़ से भी अधिक राशि के बकाया बिजली बिल माफ कर दिये गये हैं। उन्होंने बताया कि योजना में जो असंगठित श्रमिक और अन्य पात्र लोग अभी तक पंजीयन नहीं करा पाये हैं, उनके पंजीयन के लिये व्यवस्था की जा रही है। सम्मेलन में सांसद श्री लक्ष्मीनारायण यादव, लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह, उद्यानिकी राज्य मंत्री श्री सूर्यप्रकाश मीणा, विधायक श्री कल्याण सिंह ठाकुर और श्री वीर सिंह पंवार, जिला पंचायत अध्यक्ष श्री तोरण सिंह दांगी, नगर पालिका अध्यक्ष श्री मुकेश टंडन, को-ऑपरेटिव बैंक के अध्यक्ष श्री श्याम सुंदर शर्मा, अन्य जन-प्रतिनिधि और बड़ी संख्या में विभिन्न वर्गों के लोग मौजूद थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने विदिशा में वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप की प्रतिमा का अनावरण किया। स्थानीय दुर्गा नगर चौराहे पर नगर पालिका द्वारा यह प्रतिमा स्थापित की गई है। अनावरण कार्यक्रम में लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह और सांसद श्री लक्ष्मीनारायण यादव भी उपस्थित थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

vidisha

 किसानों के खातों में पहुँचे 33 हजार करोड़ : गरीबों के 44 करोड़ बिजली बिल हुए माफ  मुख्यमंत्री द्वारा विदिशा जिले में 170 करोड़ के कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण  एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज विदिशा में हुए किसान सम्मेलन में घोषणा की कि आगामी अगस्त माह से विदिशा में मेडिकल कॉलेज शुरू किया जायेगा। इससे विदिशा तथा आसपास की जनता को गंभीर बीमारियों के लिये भी समुचित उपचार आसानी से मिल सकेगा। श्री चौहान ने एक लाख 33 हजार किसानों के बैंक खातों में फसल बीमा योजना की 445 करोड़ की बीमा राशि ऑनलाईन ट्रांसफर की। मुख्यमंत्री ने विदिशा जिले में 170 करोड़ रूपये लागत के निर्माण कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण किया। श्री चौहान ने कहा कि इस वर्ष किसानों से गेहूँ की खरीदी समर्थन मूल्य को जोड़कर 2 हजार रूपये क्विंटल के मान से की जा रही है। इसके अलावा चना, उड़द और मूंग आदि फसलों की खरीदी भी राज्य सरकार कर रही है, ताकि किसान को उसकी कृषि उपज का लाभकारी मूल्य आसानी से मिल सके। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की मंशा है कि खेती को हर हाल में लाभकारी व्यवसाय बनाया जाये। उन्होंने बताया कि प्रदेश के किसानों के बैंक खातों में गत एक साल के दौरान 33 हजार करोड़ रुपये से अधिक की राशि विभिन्न योजनाओं में जमा करवाई गई है। श्री चौहान ने बताया कि मध्यप्रदेश का सोयाबीन चीन को निर्यात करने के प्रयास किये जा रहे हैं। इसके लिये उच्च स्तर पर चर्चा चल रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि संबल योजना समाज के हर गरीब व्यक्ति के जीवन को खुशहाल बनाने के लिये क्रियान्वित की जा रही है। योजना में पंजीकृत असंगठित श्रमिकों तथा अन्य पात्र जरूरतमंद के 44 करोड़ से भी अधिक राशि के बकाया बिजली बिल माफ कर दिये गये हैं। उन्होंने बताया कि योजना में जो असंगठित श्रमिक और अन्य पात्र लोग अभी तक पंजीयन नहीं करा पाये हैं, उनके पंजीयन के लिये व्यवस्था की जा रही है। सम्मेलन में सांसद श्री लक्ष्मीनारायण यादव, लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह, उद्यानिकी राज्य मंत्री श्री सूर्यप्रकाश मीणा, विधायक श्री कल्याण सिंह ठाकुर और श्री वीर सिंह पंवार, जिला पंचायत अध्यक्ष श्री तोरण सिंह दांगी, नगर पालिका अध्यक्ष श्री मुकेश टंडन, को-ऑपरेटिव बैंक के अध्यक्ष श्री श्याम सुंदर शर्मा, अन्य जन-प्रतिनिधि और बड़ी संख्या में विभिन्न वर्गों के लोग मौजूद थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने विदिशा में वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप की प्रतिमा का अनावरण किया। स्थानीय दुर्गा नगर चौराहे पर नगर पालिका द्वारा यह प्रतिमा स्थापित की गई है। अनावरण कार्यक्रम में लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह और सांसद श्री लक्ष्मीनारायण यादव भी उपस्थित थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

vidisha

 किसानों के खातों में पहुँचे 33 हजार करोड़ : गरीबों के 44 करोड़ बिजली बिल हुए माफ  मुख्यमंत्री द्वारा विदिशा जिले में 170 करोड़ के कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण  एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज विदिशा में हुए किसान सम्मेलन में घोषणा की कि आगामी अगस्त माह से विदिशा में मेडिकल कॉलेज शुरू किया जायेगा। इससे विदिशा तथा आसपास की जनता को गंभीर बीमारियों के लिये भी समुचित उपचार आसानी से मिल सकेगा। श्री चौहान ने एक लाख 33 हजार किसानों के बैंक खातों में फसल बीमा योजना की 445 करोड़ की बीमा राशि ऑनलाईन ट्रांसफर की। मुख्यमंत्री ने विदिशा जिले में 170 करोड़ रूपये लागत के निर्माण कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण किया। श्री चौहान ने कहा कि इस वर्ष किसानों से गेहूँ की खरीदी समर्थन मूल्य को जोड़कर 2 हजार रूपये क्विंटल के मान से की जा रही है। इसके अलावा चना, उड़द और मूंग आदि फसलों की खरीदी भी राज्य सरकार कर रही है, ताकि किसान को उसकी कृषि उपज का लाभकारी मूल्य आसानी से मिल सके। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की मंशा है कि खेती को हर हाल में लाभकारी व्यवसाय बनाया जाये। उन्होंने बताया कि प्रदेश के किसानों के बैंक खातों में गत एक साल के दौरान 33 हजार करोड़ रुपये से अधिक की राशि विभिन्न योजनाओं में जमा करवाई गई है। श्री चौहान ने बताया कि मध्यप्रदेश का सोयाबीन चीन को निर्यात करने के प्रयास किये जा रहे हैं। इसके लिये उच्च स्तर पर चर्चा चल रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि संबल योजना समाज के हर गरीब व्यक्ति के जीवन को खुशहाल बनाने के लिये क्रियान्वित की जा रही है। योजना में पंजीकृत असंगठित श्रमिकों तथा अन्य पात्र जरूरतमंद के 44 करोड़ से भी अधिक राशि के बकाया बिजली बिल माफ कर दिये गये हैं। उन्होंने बताया कि योजना में जो असंगठित श्रमिक और अन्य पात्र लोग अभी तक पंजीयन नहीं करा पाये हैं, उनके पंजीयन के लिये व्यवस्था की जा रही है। सम्मेलन में सांसद श्री लक्ष्मीनारायण यादव, लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह, उद्यानिकी राज्य मंत्री श्री सूर्यप्रकाश मीणा, विधायक श्री कल्याण सिंह ठाकुर और श्री वीर सिंह पंवार, जिला पंचायत अध्यक्ष श्री तोरण सिंह दांगी, नगर पालिका अध्यक्ष श्री मुकेश टंडन, को-ऑपरेटिव बैंक के अध्यक्ष श्री श्याम सुंदर शर्मा, अन्य जन-प्रतिनिधि और बड़ी संख्या में विभिन्न वर्गों के लोग मौजूद थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने विदिशा में वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप की प्रतिमा का अनावरण किया। स्थानीय दुर्गा नगर चौराहे पर नगर पालिका द्वारा यह प्रतिमा स्थापित की गई है। अनावरण कार्यक्रम में लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह और सांसद श्री लक्ष्मीनारायण यादव भी उपस्थित थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

आयकर दिवस

आयकर दिवस पर वृद्ध आयकरदाताओं और अधिकारियों का सम्मान  मध्यप्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कहा है कि नागरिकों का नैतिक कर्तव्य है कि कमजोर वर्गों के कल्याण और देश के विकास में आयकर देकर अपना अधिक से अधिक योगदान दें। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश एवं छत्तीसगढ़ के करदाताओं की सख्या में वृद्धि पूरे देश में करदाताओं की वृद्धि के औसत से अधिक है। इस विशाल कर संग्रहण का श्रेय कर प्रशासन के साथ-साथ देश के ईमानदार करदाताओं को भी जाता है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार इनकम टैक्स की प्रक्रिया को और सरल बना रही है, जिससे आम लोगों तथा सरकार को फायदा होगा। राज्यपाल ने यह बात आज आयकर दिवस के अवसर आयोजित समारोह में कही। उन्होंने इस अवसर पर वृद्ध आयकरदाताओं और आयकर इन्वेस्टिगेशन तथा वसूली में उत्कृष्ट योगदान देने वाले अधिकारियों को शाल-श्रीफल भेंट कर सम्मानित किया। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि हमारा देश विश्व में अर्थ-व्यवस्था के हिसाब से ब्रिटेन को पछाड़कर छठवें स्थान पर आ गया है। हाल ही में फोर्ब्स पत्रिका के मुताबिक पहली बार भारत सकल घरेलू उत्पाद के मामले में ब्रिटेन से आगे निकला है और अमेरिका, चीन, जापान, जर्मनी तथा फ्रांस के साथ प्रतिस्पर्धा में है। राज्यपाल ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा कालेधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ की गई कार्रवाई और जीएसटी प्रणाली लागू होने के बाद देश में रिकार्ड संख्या में लोग टैक्स देने के लिए आगे आ रहे हैं । ये बदले हुए वातावरण का प्रमाण है। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि जब से बेनामी संपत्ति का कानून सदन में पारित हुआ है, तब से अब तक चार से साढ़े चार हजार करोड़ की संपत्ति जब्त कर ली गई है। इसलिए आयकर विभाग की भूमिका बेहद महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि वित्त वर्ष 2017-18 में केन्द्र सरकार का आयकर का कुल संग्रहण दस लाख करोड़ रूपये से अधिक था, जो एक ऐतिहासिक उपलब्धि थी। राज्यपाल ने इस अवसर पर आयकर विभाग की सालाना पुस्तक और आयकर प्रतिविंब पत्रिका का विमोचन किया तथा आयकर से संबंधित विभिन्न प्रतियोगिताओं में भाग लेने वाले छात्र-छात्राओं को सम्मानित भी किया। प्रिंसिपल चीफ कमिश्नर आयकर श्री प्रसन्न कुमार दाश ने आयकर विभाग की गतिविधियों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि करदाताओं में अपने कर्तव्य और दायित्व के प्रति जागरूकता आ रही है। उन्होंने कहा कि करदाता होना गर्व की बात है। आयकर से ही देश शक्तिशाली बनेगा। सरकार सभी से थोड़ा-थोड़ा लेकर विभिन्न निर्माण कार्यों पर खर्च करती है। इस अवसर पर मुख्य आयकर आयुक्त इंदौर श्री अजय चौहान ने आभार व्यक्त किया।       विदिशा में अगस्त माह से शुरू होगा मेडिकल कॉलेज: मुख्यमंत्री श्री चौहान किसानों के खातों में पहुँचे 33 हजार करोड़ : गरीबों के 44 करोड़ बिजली बिल हुए माफ  मुख्यमंत्री द्वारा विदिशा जिले में 170 करोड़ के कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण   एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज विदिशा में हुए किसान सम्मेलन में घोषणा की कि आगामी अगस्त माह से विदिशा में मेडिकल कॉलेज शुरू किया जायेगा। इससे विदिशा तथा आसपास की जनता को गंभीर बीमारियों के लिये भी समुचित उपचार आसानी से मिल सकेगा। श्री चौहान ने एक लाख 33 हजार किसानों के बैंक खातों में फसल बीमा योजना की 445 करोड़ की बीमा राशि ऑनलाईन ट्रांसफर की। मुख्यमंत्री ने विदिशा जिले में 170 करोड़ रूपये लागत के निर्माण कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण किया। श्री चौहान ने कहा कि इस वर्ष किसानों से गेहूँ की खरीदी समर्थन मूल्य को जोड़कर 2 हजार रूपये क्विंटल के मान से की जा रही है। इसके अलावा चना, उड़द और मूंग आदि फसलों की खरीदी भी राज्य सरकार कर रही है, ताकि किसान को उसकी कृषि उपज का लाभकारी मूल्य आसानी से मिल सके। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की मंशा है कि खेती को हर हाल में लाभकारी व्यवसाय बनाया जाये। उन्होंने बताया कि प्रदेश के किसानों के बैंक खातों में गत एक साल के दौरान 33 हजार करोड़ रुपये से अधिक की राशि विभिन्न योजनाओं में जमा करवाई गई है। श्री चौहान ने बताया कि मध्यप्रदेश का सोयाबीन चीन को निर्यात करने के प्रयास किये जा रहे हैं। इसके लिये उच्च स्तर पर चर्चा चल रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि संबल योजना समाज के हर गरीब व्यक्ति के जीवन को खुशहाल बनाने के लिये क्रियान्वित की जा रही है। योजना में पंजीकृत असंगठित श्रमिकों तथा अन्य पात्र जरूरतमंद के 44 करोड़ से भी अधिक राशि के बकाया बिजली बिल माफ कर दिये गये हैं। उन्होंने बताया कि योजना में जो असंगठित श्रमिक और अन्य पात्र लोग अभी तक पंजीयन नहीं करा पाये हैं, उनके पंजीयन के लिये व्यवस्था की जा रही है। सम्मेलन में सांसद श्री लक्ष्मीनारायण यादव, लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह, उद्यानिकी राज्य मंत्री श्री सूर्यप्रकाश मीणा, विधायक श्री कल्याण सिंह ठाकुर और श्री वीर सिंह पंवार, जिला पंचायत अध्यक्ष श्री तोरण सिंह दांगी, नगर पालिका अध्यक्ष श्री मुकेश टंडन, को-ऑपरेटिव बैंक के अध्यक्ष श्री श्याम सुंदर शर्मा, अन्य जन-प्रतिनिधि और बड़ी संख्या में विभिन्न वर्गों के लोग मौजूद थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने विदिशा में वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप की प्रतिमा का अनावरण किया। स्थानीय दुर्गा नगर चौराहे पर नगर पालिका द्वारा यह प्रतिमा स्थापित की गई है। अनावरण कार्यक्रम में लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह और सांसद श्री लक्ष्मीनारायण यादव भी उपस्थित थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

आयकर दिवस

आयकर दिवस पर वृद्ध आयकरदाताओं और अधिकारियों का सम्मान  मध्यप्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कहा है कि नागरिकों का नैतिक कर्तव्य है कि कमजोर वर्गों के कल्याण और देश के विकास में आयकर देकर अपना अधिक से अधिक योगदान दें। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश एवं छत्तीसगढ़ के करदाताओं की सख्या में वृद्धि पूरे देश में करदाताओं की वृद्धि के औसत से अधिक है। इस विशाल कर संग्रहण का श्रेय कर प्रशासन के साथ-साथ देश के ईमानदार करदाताओं को भी जाता है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार इनकम टैक्स की प्रक्रिया को और सरल बना रही है, जिससे आम लोगों तथा सरकार को फायदा होगा। राज्यपाल ने यह बात आज आयकर दिवस के अवसर आयोजित समारोह में कही। उन्होंने इस अवसर पर वृद्ध आयकरदाताओं और आयकर इन्वेस्टिगेशन तथा वसूली में उत्कृष्ट योगदान देने वाले अधिकारियों को शाल-श्रीफल भेंट कर सम्मानित किया। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि हमारा देश विश्व में अर्थ-व्यवस्था के हिसाब से ब्रिटेन को पछाड़कर छठवें स्थान पर आ गया है। हाल ही में फोर्ब्स पत्रिका के मुताबिक पहली बार भारत सकल घरेलू उत्पाद के मामले में ब्रिटेन से आगे निकला है और अमेरिका, चीन, जापान, जर्मनी तथा फ्रांस के साथ प्रतिस्पर्धा में है। राज्यपाल ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा कालेधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ की गई कार्रवाई और जीएसटी प्रणाली लागू होने के बाद देश में रिकार्ड संख्या में लोग टैक्स देने के लिए आगे आ रहे हैं । ये बदले हुए वातावरण का प्रमाण है। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि जब से बेनामी संपत्ति का कानून सदन में पारित हुआ है, तब से अब तक चार से साढ़े चार हजार करोड़ की संपत्ति जब्त कर ली गई है। इसलिए आयकर विभाग की भूमिका बेहद महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि वित्त वर्ष 2017-18 में केन्द्र सरकार का आयकर का कुल संग्रहण दस लाख करोड़ रूपये से अधिक था, जो एक ऐतिहासिक उपलब्धि थी। राज्यपाल ने इस अवसर पर आयकर विभाग की सालाना पुस्तक और आयकर प्रतिविंब पत्रिका का विमोचन किया तथा आयकर से संबंधित विभिन्न प्रतियोगिताओं में भाग लेने वाले छात्र-छात्राओं को सम्मानित भी किया। प्रिंसिपल चीफ कमिश्नर आयकर श्री प्रसन्न कुमार दाश ने आयकर विभाग की गतिविधियों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि करदाताओं में अपने कर्तव्य और दायित्व के प्रति जागरूकता आ रही है। उन्होंने कहा कि करदाता होना गर्व की बात है। आयकर से ही देश शक्तिशाली बनेगा। सरकार सभी से थोड़ा-थोड़ा लेकर विभिन्न निर्माण कार्यों पर खर्च करती है। इस अवसर पर मुख्य आयकर आयुक्त इंदौर श्री अजय चौहान ने आभार व्यक्त किया।       विदिशा में अगस्त माह से शुरू होगा मेडिकल कॉलेज: मुख्यमंत्री श्री चौहान किसानों के खातों में पहुँचे 33 हजार करोड़ : गरीबों के 44 करोड़ बिजली बिल हुए माफ  मुख्यमंत्री द्वारा विदिशा जिले में 170 करोड़ के कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण   एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज विदिशा में हुए किसान सम्मेलन में घोषणा की कि आगामी अगस्त माह से विदिशा में मेडिकल कॉलेज शुरू किया जायेगा। इससे विदिशा तथा आसपास की जनता को गंभीर बीमारियों के लिये भी समुचित उपचार आसानी से मिल सकेगा। श्री चौहान ने एक लाख 33 हजार किसानों के बैंक खातों में फसल बीमा योजना की 445 करोड़ की बीमा राशि ऑनलाईन ट्रांसफर की। मुख्यमंत्री ने विदिशा जिले में 170 करोड़ रूपये लागत के निर्माण कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण किया। श्री चौहान ने कहा कि इस वर्ष किसानों से गेहूँ की खरीदी समर्थन मूल्य को जोड़कर 2 हजार रूपये क्विंटल के मान से की जा रही है। इसके अलावा चना, उड़द और मूंग आदि फसलों की खरीदी भी राज्य सरकार कर रही है, ताकि किसान को उसकी कृषि उपज का लाभकारी मूल्य आसानी से मिल सके। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की मंशा है कि खेती को हर हाल में लाभकारी व्यवसाय बनाया जाये। उन्होंने बताया कि प्रदेश के किसानों के बैंक खातों में गत एक साल के दौरान 33 हजार करोड़ रुपये से अधिक की राशि विभिन्न योजनाओं में जमा करवाई गई है। श्री चौहान ने बताया कि मध्यप्रदेश का सोयाबीन चीन को निर्यात करने के प्रयास किये जा रहे हैं। इसके लिये उच्च स्तर पर चर्चा चल रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि संबल योजना समाज के हर गरीब व्यक्ति के जीवन को खुशहाल बनाने के लिये क्रियान्वित की जा रही है। योजना में पंजीकृत असंगठित श्रमिकों तथा अन्य पात्र जरूरतमंद के 44 करोड़ से भी अधिक राशि के बकाया बिजली बिल माफ कर दिये गये हैं। उन्होंने बताया कि योजना में जो असंगठित श्रमिक और अन्य पात्र लोग अभी तक पंजीयन नहीं करा पाये हैं, उनके पंजीयन के लिये व्यवस्था की जा रही है। सम्मेलन में सांसद श्री लक्ष्मीनारायण यादव, लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह, उद्यानिकी राज्य मंत्री श्री सूर्यप्रकाश मीणा, विधायक श्री कल्याण सिंह ठाकुर और श्री वीर सिंह पंवार, जिला पंचायत अध्यक्ष श्री तोरण सिंह दांगी, नगर पालिका अध्यक्ष श्री मुकेश टंडन, को-ऑपरेटिव बैंक के अध्यक्ष श्री श्याम सुंदर शर्मा, अन्य जन-प्रतिनिधि और बड़ी संख्या में विभिन्न वर्गों के लोग मौजूद थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने विदिशा में वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप की प्रतिमा का अनावरण किया। स्थानीय दुर्गा नगर चौराहे पर नगर पालिका द्वारा यह प्रतिमा स्थापित की गई है। अनावरण कार्यक्रम में लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह और सांसद श्री लक्ष्मीनारायण यादव भी उपस्थित थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

आयकर दिवस

आयकर दिवस पर वृद्ध आयकरदाताओं और अधिकारियों का सम्मान  मध्यप्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कहा है कि नागरिकों का नैतिक कर्तव्य है कि कमजोर वर्गों के कल्याण और देश के विकास में आयकर देकर अपना अधिक से अधिक योगदान दें। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश एवं छत्तीसगढ़ के करदाताओं की सख्या में वृद्धि पूरे देश में करदाताओं की वृद्धि के औसत से अधिक है। इस विशाल कर संग्रहण का श्रेय कर प्रशासन के साथ-साथ देश के ईमानदार करदाताओं को भी जाता है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार इनकम टैक्स की प्रक्रिया को और सरल बना रही है, जिससे आम लोगों तथा सरकार को फायदा होगा। राज्यपाल ने यह बात आज आयकर दिवस के अवसर आयोजित समारोह में कही। उन्होंने इस अवसर पर वृद्ध आयकरदाताओं और आयकर इन्वेस्टिगेशन तथा वसूली में उत्कृष्ट योगदान देने वाले अधिकारियों को शाल-श्रीफल भेंट कर सम्मानित किया। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि हमारा देश विश्व में अर्थ-व्यवस्था के हिसाब से ब्रिटेन को पछाड़कर छठवें स्थान पर आ गया है। हाल ही में फोर्ब्स पत्रिका के मुताबिक पहली बार भारत सकल घरेलू उत्पाद के मामले में ब्रिटेन से आगे निकला है और अमेरिका, चीन, जापान, जर्मनी तथा फ्रांस के साथ प्रतिस्पर्धा में है। राज्यपाल ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा कालेधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ की गई कार्रवाई और जीएसटी प्रणाली लागू होने के बाद देश में रिकार्ड संख्या में लोग टैक्स देने के लिए आगे आ रहे हैं । ये बदले हुए वातावरण का प्रमाण है। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि जब से बेनामी संपत्ति का कानून सदन में पारित हुआ है, तब से अब तक चार से साढ़े चार हजार करोड़ की संपत्ति जब्त कर ली गई है। इसलिए आयकर विभाग की भूमिका बेहद महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि वित्त वर्ष 2017-18 में केन्द्र सरकार का आयकर का कुल संग्रहण दस लाख करोड़ रूपये से अधिक था, जो एक ऐतिहासिक उपलब्धि थी। राज्यपाल ने इस अवसर पर आयकर विभाग की सालाना पुस्तक और आयकर प्रतिविंब पत्रिका का विमोचन किया तथा आयकर से संबंधित विभिन्न प्रतियोगिताओं में भाग लेने वाले छात्र-छात्राओं को सम्मानित भी किया। प्रिंसिपल चीफ कमिश्नर आयकर श्री प्रसन्न कुमार दाश ने आयकर विभाग की गतिविधियों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि करदाताओं में अपने कर्तव्य और दायित्व के प्रति जागरूकता आ रही है। उन्होंने कहा कि करदाता होना गर्व की बात है। आयकर से ही देश शक्तिशाली बनेगा। सरकार सभी से थोड़ा-थोड़ा लेकर विभिन्न निर्माण कार्यों पर खर्च करती है। इस अवसर पर मुख्य आयकर आयुक्त इंदौर श्री अजय चौहान ने आभार व्यक्त किया।       विदिशा में अगस्त माह से शुरू होगा मेडिकल कॉलेज: मुख्यमंत्री श्री चौहान किसानों के खातों में पहुँचे 33 हजार करोड़ : गरीबों के 44 करोड़ बिजली बिल हुए माफ  मुख्यमंत्री द्वारा विदिशा जिले में 170 करोड़ के कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण   एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज विदिशा में हुए किसान सम्मेलन में घोषणा की कि आगामी अगस्त माह से विदिशा में मेडिकल कॉलेज शुरू किया जायेगा। इससे विदिशा तथा आसपास की जनता को गंभीर बीमारियों के लिये भी समुचित उपचार आसानी से मिल सकेगा। श्री चौहान ने एक लाख 33 हजार किसानों के बैंक खातों में फसल बीमा योजना की 445 करोड़ की बीमा राशि ऑनलाईन ट्रांसफर की। मुख्यमंत्री ने विदिशा जिले में 170 करोड़ रूपये लागत के निर्माण कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण किया। श्री चौहान ने कहा कि इस वर्ष किसानों से गेहूँ की खरीदी समर्थन मूल्य को जोड़कर 2 हजार रूपये क्विंटल के मान से की जा रही है। इसके अलावा चना, उड़द और मूंग आदि फसलों की खरीदी भी राज्य सरकार कर रही है, ताकि किसान को उसकी कृषि उपज का लाभकारी मूल्य आसानी से मिल सके। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की मंशा है कि खेती को हर हाल में लाभकारी व्यवसाय बनाया जाये। उन्होंने बताया कि प्रदेश के किसानों के बैंक खातों में गत एक साल के दौरान 33 हजार करोड़ रुपये से अधिक की राशि विभिन्न योजनाओं में जमा करवाई गई है। श्री चौहान ने बताया कि मध्यप्रदेश का सोयाबीन चीन को निर्यात करने के प्रयास किये जा रहे हैं। इसके लिये उच्च स्तर पर चर्चा चल रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि संबल योजना समाज के हर गरीब व्यक्ति के जीवन को खुशहाल बनाने के लिये क्रियान्वित की जा रही है। योजना में पंजीकृत असंगठित श्रमिकों तथा अन्य पात्र जरूरतमंद के 44 करोड़ से भी अधिक राशि के बकाया बिजली बिल माफ कर दिये गये हैं। उन्होंने बताया कि योजना में जो असंगठित श्रमिक और अन्य पात्र लोग अभी तक पंजीयन नहीं करा पाये हैं, उनके पंजीयन के लिये व्यवस्था की जा रही है। सम्मेलन में सांसद श्री लक्ष्मीनारायण यादव, लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह, उद्यानिकी राज्य मंत्री श्री सूर्यप्रकाश मीणा, विधायक श्री कल्याण सिंह ठाकुर और श्री वीर सिंह पंवार, जिला पंचायत अध्यक्ष श्री तोरण सिंह दांगी, नगर पालिका अध्यक्ष श्री मुकेश टंडन, को-ऑपरेटिव बैंक के अध्यक्ष श्री श्याम सुंदर शर्मा, अन्य जन-प्रतिनिधि और बड़ी संख्या में विभिन्न वर्गों के लोग मौजूद थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने विदिशा में वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप की प्रतिमा का अनावरण किया। स्थानीय दुर्गा नगर चौराहे पर नगर पालिका द्वारा यह प्रतिमा स्थापित की गई है। अनावरण कार्यक्रम में लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह और सांसद श्री लक्ष्मीनारायण यादव भी उपस्थित थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

आयकर दिवस

आयकर दिवस पर वृद्ध आयकरदाताओं और अधिकारियों का सम्मान  मध्यप्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कहा है कि नागरिकों का नैतिक कर्तव्य है कि कमजोर वर्गों के कल्याण और देश के विकास में आयकर देकर अपना अधिक से अधिक योगदान दें। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश एवं छत्तीसगढ़ के करदाताओं की सख्या में वृद्धि पूरे देश में करदाताओं की वृद्धि के औसत से अधिक है। इस विशाल कर संग्रहण का श्रेय कर प्रशासन के साथ-साथ देश के ईमानदार करदाताओं को भी जाता है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार इनकम टैक्स की प्रक्रिया को और सरल बना रही है, जिससे आम लोगों तथा सरकार को फायदा होगा। राज्यपाल ने यह बात आज आयकर दिवस के अवसर आयोजित समारोह में कही। उन्होंने इस अवसर पर वृद्ध आयकरदाताओं और आयकर इन्वेस्टिगेशन तथा वसूली में उत्कृष्ट योगदान देने वाले अधिकारियों को शाल-श्रीफल भेंट कर सम्मानित किया। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि हमारा देश विश्व में अर्थ-व्यवस्था के हिसाब से ब्रिटेन को पछाड़कर छठवें स्थान पर आ गया है। हाल ही में फोर्ब्स पत्रिका के मुताबिक पहली बार भारत सकल घरेलू उत्पाद के मामले में ब्रिटेन से आगे निकला है और अमेरिका, चीन, जापान, जर्मनी तथा फ्रांस के साथ प्रतिस्पर्धा में है। राज्यपाल ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा कालेधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ की गई कार्रवाई और जीएसटी प्रणाली लागू होने के बाद देश में रिकार्ड संख्या में लोग टैक्स देने के लिए आगे आ रहे हैं । ये बदले हुए वातावरण का प्रमाण है। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि जब से बेनामी संपत्ति का कानून सदन में पारित हुआ है, तब से अब तक चार से साढ़े चार हजार करोड़ की संपत्ति जब्त कर ली गई है। इसलिए आयकर विभाग की भूमिका बेहद महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि वित्त वर्ष 2017-18 में केन्द्र सरकार का आयकर का कुल संग्रहण दस लाख करोड़ रूपये से अधिक था, जो एक ऐतिहासिक उपलब्धि थी। राज्यपाल ने इस अवसर पर आयकर विभाग की सालाना पुस्तक और आयकर प्रतिविंब पत्रिका का विमोचन किया तथा आयकर से संबंधित विभिन्न प्रतियोगिताओं में भाग लेने वाले छात्र-छात्राओं को सम्मानित भी किया। प्रिंसिपल चीफ कमिश्नर आयकर श्री प्रसन्न कुमार दाश ने आयकर विभाग की गतिविधियों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि करदाताओं में अपने कर्तव्य और दायित्व के प्रति जागरूकता आ रही है। उन्होंने कहा कि करदाता होना गर्व की बात है। आयकर से ही देश शक्तिशाली बनेगा। सरकार सभी से थोड़ा-थोड़ा लेकर विभिन्न निर्माण कार्यों पर खर्च करती है। इस अवसर पर मुख्य आयकर आयुक्त इंदौर श्री अजय चौहान ने आभार व्यक्त किया।       विदिशा में अगस्त माह से शुरू होगा मेडिकल कॉलेज: मुख्यमंत्री श्री चौहान किसानों के खातों में पहुँचे 33 हजार करोड़ : गरीबों के 44 करोड़ बिजली बिल हुए माफ  मुख्यमंत्री द्वारा विदिशा जिले में 170 करोड़ के कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण   एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज विदिशा में हुए किसान सम्मेलन में घोषणा की कि आगामी अगस्त माह से विदिशा में मेडिकल कॉलेज शुरू किया जायेगा। इससे विदिशा तथा आसपास की जनता को गंभीर बीमारियों के लिये भी समुचित उपचार आसानी से मिल सकेगा। श्री चौहान ने एक लाख 33 हजार किसानों के बैंक खातों में फसल बीमा योजना की 445 करोड़ की बीमा राशि ऑनलाईन ट्रांसफर की। मुख्यमंत्री ने विदिशा जिले में 170 करोड़ रूपये लागत के निर्माण कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण किया। श्री चौहान ने कहा कि इस वर्ष किसानों से गेहूँ की खरीदी समर्थन मूल्य को जोड़कर 2 हजार रूपये क्विंटल के मान से की जा रही है। इसके अलावा चना, उड़द और मूंग आदि फसलों की खरीदी भी राज्य सरकार कर रही है, ताकि किसान को उसकी कृषि उपज का लाभकारी मूल्य आसानी से मिल सके। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की मंशा है कि खेती को हर हाल में लाभकारी व्यवसाय बनाया जाये। उन्होंने बताया कि प्रदेश के किसानों के बैंक खातों में गत एक साल के दौरान 33 हजार करोड़ रुपये से अधिक की राशि विभिन्न योजनाओं में जमा करवाई गई है। श्री चौहान ने बताया कि मध्यप्रदेश का सोयाबीन चीन को निर्यात करने के प्रयास किये जा रहे हैं। इसके लिये उच्च स्तर पर चर्चा चल रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि संबल योजना समाज के हर गरीब व्यक्ति के जीवन को खुशहाल बनाने के लिये क्रियान्वित की जा रही है। योजना में पंजीकृत असंगठित श्रमिकों तथा अन्य पात्र जरूरतमंद के 44 करोड़ से भी अधिक राशि के बकाया बिजली बिल माफ कर दिये गये हैं। उन्होंने बताया कि योजना में जो असंगठित श्रमिक और अन्य पात्र लोग अभी तक पंजीयन नहीं करा पाये हैं, उनके पंजीयन के लिये व्यवस्था की जा रही है। सम्मेलन में सांसद श्री लक्ष्मीनारायण यादव, लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह, उद्यानिकी राज्य मंत्री श्री सूर्यप्रकाश मीणा, विधायक श्री कल्याण सिंह ठाकुर और श्री वीर सिंह पंवार, जिला पंचायत अध्यक्ष श्री तोरण सिंह दांगी, नगर पालिका अध्यक्ष श्री मुकेश टंडन, को-ऑपरेटिव बैंक के अध्यक्ष श्री श्याम सुंदर शर्मा, अन्य जन-प्रतिनिधि और बड़ी संख्या में विभिन्न वर्गों के लोग मौजूद थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने विदिशा में वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप की प्रतिमा का अनावरण किया। स्थानीय दुर्गा नगर चौराहे पर नगर पालिका द्वारा यह प्रतिमा स्थापित की गई है। अनावरण कार्यक्रम में लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह और सांसद श्री लक्ष्मीनारायण यादव भी उपस्थित थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

आयकर दिवस

आयकर दिवस पर वृद्ध आयकरदाताओं और अधिकारियों का सम्मान  मध्यप्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कहा है कि नागरिकों का नैतिक कर्तव्य है कि कमजोर वर्गों के कल्याण और देश के विकास में आयकर देकर अपना अधिक से अधिक योगदान दें। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश एवं छत्तीसगढ़ के करदाताओं की सख्या में वृद्धि पूरे देश में करदाताओं की वृद्धि के औसत से अधिक है। इस विशाल कर संग्रहण का श्रेय कर प्रशासन के साथ-साथ देश के ईमानदार करदाताओं को भी जाता है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार इनकम टैक्स की प्रक्रिया को और सरल बना रही है, जिससे आम लोगों तथा सरकार को फायदा होगा। राज्यपाल ने यह बात आज आयकर दिवस के अवसर आयोजित समारोह में कही। उन्होंने इस अवसर पर वृद्ध आयकरदाताओं और आयकर इन्वेस्टिगेशन तथा वसूली में उत्कृष्ट योगदान देने वाले अधिकारियों को शाल-श्रीफल भेंट कर सम्मानित किया। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि हमारा देश विश्व में अर्थ-व्यवस्था के हिसाब से ब्रिटेन को पछाड़कर छठवें स्थान पर आ गया है। हाल ही में फोर्ब्स पत्रिका के मुताबिक पहली बार भारत सकल घरेलू उत्पाद के मामले में ब्रिटेन से आगे निकला है और अमेरिका, चीन, जापान, जर्मनी तथा फ्रांस के साथ प्रतिस्पर्धा में है। राज्यपाल ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा कालेधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ की गई कार्रवाई और जीएसटी प्रणाली लागू होने के बाद देश में रिकार्ड संख्या में लोग टैक्स देने के लिए आगे आ रहे हैं । ये बदले हुए वातावरण का प्रमाण है। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि जब से बेनामी संपत्ति का कानून सदन में पारित हुआ है, तब से अब तक चार से साढ़े चार हजार करोड़ की संपत्ति जब्त कर ली गई है। इसलिए आयकर विभाग की भूमिका बेहद महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि वित्त वर्ष 2017-18 में केन्द्र सरकार का आयकर का कुल संग्रहण दस लाख करोड़ रूपये से अधिक था, जो एक ऐतिहासिक उपलब्धि थी। राज्यपाल ने इस अवसर पर आयकर विभाग की सालाना पुस्तक और आयकर प्रतिविंब पत्रिका का विमोचन किया तथा आयकर से संबंधित विभिन्न प्रतियोगिताओं में भाग लेने वाले छात्र-छात्राओं को सम्मानित भी किया। प्रिंसिपल चीफ कमिश्नर आयकर श्री प्रसन्न कुमार दाश ने आयकर विभाग की गतिविधियों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि करदाताओं में अपने कर्तव्य और दायित्व के प्रति जागरूकता आ रही है। उन्होंने कहा कि करदाता होना गर्व की बात है। आयकर से ही देश शक्तिशाली बनेगा। सरकार सभी से थोड़ा-थोड़ा लेकर विभिन्न निर्माण कार्यों पर खर्च करती है। इस अवसर पर मुख्य आयकर आयुक्त इंदौर श्री अजय चौहान ने आभार व्यक्त किया।       विदिशा में अगस्त माह से शुरू होगा मेडिकल कॉलेज: मुख्यमंत्री श्री चौहान किसानों के खातों में पहुँचे 33 हजार करोड़ : गरीबों के 44 करोड़ बिजली बिल हुए माफ  मुख्यमंत्री द्वारा विदिशा जिले में 170 करोड़ के कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण   एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज विदिशा में हुए किसान सम्मेलन में घोषणा की कि आगामी अगस्त माह से विदिशा में मेडिकल कॉलेज शुरू किया जायेगा। इससे विदिशा तथा आसपास की जनता को गंभीर बीमारियों के लिये भी समुचित उपचार आसानी से मिल सकेगा। श्री चौहान ने एक लाख 33 हजार किसानों के बैंक खातों में फसल बीमा योजना की 445 करोड़ की बीमा राशि ऑनलाईन ट्रांसफर की। मुख्यमंत्री ने विदिशा जिले में 170 करोड़ रूपये लागत के निर्माण कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण किया। श्री चौहान ने कहा कि इस वर्ष किसानों से गेहूँ की खरीदी समर्थन मूल्य को जोड़कर 2 हजार रूपये क्विंटल के मान से की जा रही है। इसके अलावा चना, उड़द और मूंग आदि फसलों की खरीदी भी राज्य सरकार कर रही है, ताकि किसान को उसकी कृषि उपज का लाभकारी मूल्य आसानी से मिल सके। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की मंशा है कि खेती को हर हाल में लाभकारी व्यवसाय बनाया जाये। उन्होंने बताया कि प्रदेश के किसानों के बैंक खातों में गत एक साल के दौरान 33 हजार करोड़ रुपये से अधिक की राशि विभिन्न योजनाओं में जमा करवाई गई है। श्री चौहान ने बताया कि मध्यप्रदेश का सोयाबीन चीन को निर्यात करने के प्रयास किये जा रहे हैं। इसके लिये उच्च स्तर पर चर्चा चल रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि संबल योजना समाज के हर गरीब व्यक्ति के जीवन को खुशहाल बनाने के लिये क्रियान्वित की जा रही है। योजना में पंजीकृत असंगठित श्रमिकों तथा अन्य पात्र जरूरतमंद के 44 करोड़ से भी अधिक राशि के बकाया बिजली बिल माफ कर दिये गये हैं। उन्होंने बताया कि योजना में जो असंगठित श्रमिक और अन्य पात्र लोग अभी तक पंजीयन नहीं करा पाये हैं, उनके पंजीयन के लिये व्यवस्था की जा रही है। सम्मेलन में सांसद श्री लक्ष्मीनारायण यादव, लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह, उद्यानिकी राज्य मंत्री श्री सूर्यप्रकाश मीणा, विधायक श्री कल्याण सिंह ठाकुर और श्री वीर सिंह पंवार, जिला पंचायत अध्यक्ष श्री तोरण सिंह दांगी, नगर पालिका अध्यक्ष श्री मुकेश टंडन, को-ऑपरेटिव बैंक के अध्यक्ष श्री श्याम सुंदर शर्मा, अन्य जन-प्रतिनिधि और बड़ी संख्या में विभिन्न वर्गों के लोग मौजूद थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने विदिशा में वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप की प्रतिमा का अनावरण किया। स्थानीय दुर्गा नगर चौराहे पर नगर पालिका द्वारा यह प्रतिमा स्थापित की गई है। अनावरण कार्यक्रम में लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह और सांसद श्री लक्ष्मीनारायण यादव भी उपस्थित थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

nitin gadkari

केन्द्रीय भूतल परिवहन और जल-संसाधन मंत्री श्री नितिन गडकरी से जनसम्पर्क, जल संसाधन एवं संसदीय कार्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने सुबह ग्वालियर में सौजन्य भेंट की। डॉ. मिश्र ने श्री गडकरी को ग्वालियर-चंबल संभाग सहित संपूर्ण प्रदेश में सिंचाई सुविधाओं के विस्तार के लिए किए गए प्रयासों की जानकारी दी। श्री गडकरी ने उन्हें भरोसा दिलाया कि भारत सरकार मध्यप्रदेश के अधोसंरचनागत विकास के लिए धन की कमी नहीं होने देगी।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

जूनियर डॉक्टर

राज्य शासन ने जूनियर डॉक्टर और पैरामेडिकल स्टाफ की सेवा को अत्यावश्यक सेवा घोषित कर दिया है।इसके साथ ही शासन ने इन सभी के अवकाश पर 3 महीने तक अवकाश लेने पर रोक लगा दी। चिकित्सा शिक्षा विभाग ने इस बारे में नोटिफिकेशन जारी किया है। जानकारी के मुताबिक चिकित्सा शिक्षा विभाग ने जारी नोटिफिकेशन में कहा कि विभाग के अंतर्गत शासकीय चिकित्सा महाविद्यालयों की स्वशासी समितियों के तहत कार्यरत समस्त संवर्ग के अधिकारियों और कर्मचारियों के काम नहीं करने और सामूहिक अवकाश लिए जाने पर रोक लगा दी गई है। शासन ने जूनियर डॉक्टर और पैरामेडिकल स्टाफ से जुड़ी सेवाओं को अत्यावश्यक सेवा संधारण तथा विच्छिन्नता निवारण अधिनियम 1979 की उपधारा 01 के तहत मिली शक्तियों का उपयोग करते हुए इन सेवाओं को अत्यावश्यक की श्रेणी में रखा है। साथ ही निर्देश दिए कि अब इस संवर्ग में आने वाले अधिकारी-कर्मचारी ना तो काम करने से इंकार कर सकते हैं और ना ही सामूहिक अवकाश पर जा सकते हैं। शासन ने आगामी 3 महीनों के लिए ये व्यवस्था लागू की है। गौरतलब है कि विभिन्न मांगोंं को लेकर जूडा और पैरामेडिकल स्टाफ संवर्ग ने प्रदेश में बेमियादी हड़ताल शुरू की है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

उमाशंकर गुप्ता

  अनूसूचित बालक छात्रावास में हुआ प्रवेशोत्सव राजस्व, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री श्री उमाशंकर गुप्ता ने विद्यार्थियों से कहा है कि आप सिर्फ परिश्रम करें, संसाधन जुटाने का कार्य सरकार करेगी। श्री गुप्ता ने शासकीय महाविद्यालयीन अनुसूचित जनजाति बालक छात्रावास भदभदा रोड़ के प्रवेश उत्सव में यह बात कही। ज्ञातव्य है कि पूरे प्रदेश में आज छात्रावास प्रवेश उत्सव मनाया जा रहा है। श्री गुप्ता ने देवास में गरीब परिवार के छात्र के एम्‍स में एम.बी.बी.एस. में चयन का उदाहरण देते हुए कहा कि ज्ञान पर किसी वर्ग विशेष का अधिकार नहीं होता। पूरे मन से सही दिशा में परिश्रम करें, सफलता जरूर मिलेगी। उन्होंने बताया कि हॉस्टल में जगह नहीं मिले, तो किराये का मकान लें। किराया सरकार भरेगी। अच्छी नौकरी के लिये कोचिंग भी करवायी जायेगी। विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री श्री गुप्ता ने कहा कि छात्रावास में कौशल विकास की कक्षाएँ भी लगायी जायें। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों की इच्छानुसार खाली समय में उन्हें कौशल विकास की ट्रेनिंग दिलवायें। श्री गुप्ता ने कहा कि मात्र मार्कशीट के आधार पर नौकरी मिलना मुश्किल है। हुनरमंद बनेंगे, तो रोजगार की समस्या नहीं होगी। श्री गुप्ता ने कहा कि छात्रावास में वर्ष में एक दिन मेरी तरफ से भोजन करवाया जाये। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों को कोई समस्या हो, तो मुझे बता सकते हैं। श्री गुप्ता ने छात्रावास परिसर में आम और अमरूद के पौधें लगाये। इस मौके पर स्थानीय जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे। राजस्व मंत्री द्वारा चन्द्रशेखर आजाद की प्रतिमा पर माल्यार्पण राजस्व, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री  उमाशंकर गुप्ता ने अमर शहीद चन्द्रशेखर आजाद की जयंती पर न्यू-मार्केट और गीतांजलि चौराहा में उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। उन्होंने कहा कि इन शहीदों के कारण ही हमें स्वतंत्रता मिली है। राजस्व मंत्री श्री गुप्ता ने खेल मैदान कोटरा में पौध-रोपण किया। उन्होंने स्थानीय रहवासियों से कहा कि पौधों के वृक्ष बनने तक उनकी सुरक्षा करें। इस दौरान स्थानीय जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने रविवार को जबलपुर में आयोजित मध्यक्षेत्रीय गुजराती बाजखेड़ाबाल समाज की स्थापना के रजत जयंती समोराह में कहा कि युवाओं को भारतीय संस्कृति, सभ्यता और परम्पराओं के प्रति जागरूक किया जाये। उन्होंने गुजराती समाज की विकास में भागीदारी और गुजरात राज्य की समृद्धि का जिक्र करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा शुरू किये गये जन-कल्याणकारी कार्यक्रमों को सफल बनाने में सम्पूर्ण समाज अपनी भागीदारी सुनिश्चित करे। राज्यपाल ने इस मौके पर गुजराती समाज की स्मारिका का विमोचन किया और विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य करने वाले सक्षम व्यक्तियों को सम्मानित किया। समारोह की अध्यक्षता गुजरात सरकार के संस्कृत बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष श्री गौतम पटेल ने की। महामण्डलेश्वर स्वामी अखिलेश्वरानंद और जबलपुर नगर निगम की महापौर डॉ. स्वाति गोड़बोले भी रजत जयंती समारोह में शामिल हुए।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

सतना मेडिकल कॉलेज

    मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि आने वाले कुछ साल में सतना के स्वरूप को बदलकर अत्याधुनिक रूप दिया जाएगा। सतना को आगे बढ़ाने और विकास के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी। मुख्यमंत्री ने यह बात बी.टी.आई. मैदान, सतना में मेडिकल कॉलेज और नल-जल योजनाओं के शिलान्यास समारोह में कही। मेडिकल कॉलेज और 750 बिस्तरीय अस्पताल भवन की लागत 287 करोड़ 75 लाख है। मुख्यमंत्री ने तीन नल-जल योजनाओं का शिलान्यास किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि सतना के विकास में मेडिकल कॉलेज मील का पत्थर साबित होगा। उन्होंने कहा कि जो विद्यार्थी 75 प्रतिशत अंक लायेंगे, मेडिकल कॉलेज में प्रवेश मिलने पर उनकी फीस सरकार भरेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि मेडिकल कॉलेज सह 750 बिस्तरीय अस्पताल में चौबीस घंटे इमरजेंसी सेवाएँ मिलेंगी। इसमें 10 आपरेशन थियेटर होंगे। यहाँ 100 व्यक्तियों के ठहरने के लिए धर्मशाला भी बनाई जाएगी। सतना के औधोगिक विकास पर पौने 17 करोड़ खर्च होंगे मुख्यमंत्री ने कहा कि सतना के औद्योगिक विकास के लिए 16 करोड़ 74 लाख की राशि खर्च की जाएगी। उन्होंने कहा कि आने वाले चार साल में गरीबों को झुग्गी-झोपड़ी से मुक्ति दिलाकर उन्हें पक्के मकान बनाकर दिए जायेंगे। श्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार गरीबों के जीवन में उजाला लाने का प्रयास कर रही है। गरीबों के बिजली के बिलों की भरपाई राज्य सरकार करेगी और उनको हर माह 200 रूपये फ्लैट रेट पर बिजली देगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने पहले मध्यप्रदेश को बीमारू राज्य से विकासशील राज्य बनाया, उसके बाद विकसित राज्य बनाया और अब मध्यप्रदेश को समृद्ध राज्य बनाना चाहते हैं। मुख्यमंत्री ने लोकतंत्र सेनानियों एवं मीसाबंदियों का सम्मान किया। सांसद श्री गणेश सिंह और अन्य जन-प्रतिनिधियों ने संबोधित किया। कार्यक्रम में राज्यसभा सदस्य श्री प्रभात झा, विधायक श्री शंकरलाल तिवारी, महापौर श्रीमती ममता पाण्डेय, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती सुधा सिंह सहित अन्य जन-प्रतिनिधि और नागरिक उपस्थित थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

anandiben patel

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने आज खरगोन में केन्द्र सरकार की योजना से लाभान्वित हितग्राहियों से मुलाकात कर चर्चा की। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने मुद्रा योजना से लाभान्वित हुई महिलाओं से जाना कि मुद्रा योजना की कैसे जानकारी मिली और ऋण राशि किस तरह से मिली। राज्यपाल ने लाभान्वित हितग्राहियों से यह भी जाना कि उन्होंने अपने व्यवसाय से कितने लोगों को रोजगार उपलब्ध करवाया है। राज्यपाल श्रीमती पटेल को जिले के जैतापुर की संगीता ने बताया कि उन्हें मुद्रा योजना की जानकारी टेलीविजन से पता लगी थी। बैंक में सम्पर्क करने के बाद उन्हें मुद्रा योजना में 50 हजार की राशि मंजूर हुई। आज वे इस राशि से सिलाई केन्द्र चला रही हैं और इस केन्द्र के माध्यम से 3 परिवारों को रोजगार दे रही है। राज्यपाल ने योजना से लाभान्वित गजेन्द्र गुप्ता, रानी, सुभद्रा, लीलाबाई, अनिल और शिवराम से भी चर्चा की। राज्यपाल ने उज्जवला, सौभाग्य और प्रधानमंत्री आवास योजना से लाभान्वित हितग्राहियों से भी चर्चा की। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने रसोई गैस सिलेण्डर मिलने की व्यवस्था के बारे में भी जानकारी ली। हितग्राहियों ने बताया कि लकड़ी की तुलना में रसोई गैस की टंकी सस्ती है। लकड़ी जलाने से होने वाले दुष्प्रभाव से भी उन्हें छुटकारा मिला है। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने आज सेगाँव विकासखण्ड के ग्राम ऊन में आँगनवाड़ी, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र और बालक छात्रावास का निरीक्षण किया। राज्यपाल ने आँगनवाड़ी के बच्चों को फल वितरित किये। उन्होंने गर्भवती माताओं से चर्चा कर आँगनवाड़ी व्यवस्था के बारे में जानकारी ली। राज्यपाल ने प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में मरीजों से स्वास्थ्य की जानकारी ली। बालक छात्रावास पहुँचने पर स्कूल के छात्रों ने राज्यपाल का स्वागत किया। उन्होंने बच्चों को फल भी वितरित किये।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

shivraj singh

एमपी के मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने सीहोर जिले की महत्वाकांक्षी नर्मदा-पार्वती लिंक परियोजना का शिलान्यास किया। परियोजना के पहले और दूसरे चरण में इंदिरा सागर जलाशय से लगभग 295 मीटर ऊँचाई तक पानी लिफ्ट कर किसानों के खेतों तक पाइप लाइन से पहुँचाया जायेगा। इसके लिए पहला पंपिंग स्टेशन कन्नौद तहसील के धरमपुरी में बनाया जाएगा। दूसरे पंपिंग स्टेशन से आष्टा तहसील के सिंगारचोली गाँव के पास निर्मित जंक्शन स्ट्रक्चर में डालकर खेतों तक पहुँचाने की व्यवस्था होगी। योजना से सीहोर जिले की आष्टा, जावर तथा इछावर तहसील के 187 गाँव का लगभग ढाई लाख एकड़ रकबा सिंचित होगा। आष्टा में आज संपन्न शिलान्यास समारोह में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि परियोजना के पूरा होने पर सीहोर जिले के किसानों की तकदीर और क्षेत्र की तस्वीर बदलेगी। परियोजना से किसानों को ढाई हेक्टेयर तक के चक में पाइप लाइन से सिंचाई के लिए पानी उपलब्ध होगा। योजना से सीहोर जिले के उन किसानों को सिंचाई का लाभ मिलने लगेगा, जो भौगोलिक रूप से नर्मदा नदी से ऊँचाई पर बसे हैं। किसानों को सिंचाई के लिए पानी जल्दी मिल सके, इसके लिए नहरों के स्थान पर पाइप लाइन से सिंचाई की व्यवस्था की जा रही है। नर्मदा-क्षिप्रा-कालीसिंध-पार्वती को जोड़ने पर एक लाख 30 हजार करोड़ खर्च होंगे मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि नर्मदा-क्षिप्रा-कालीसिंध-पार्वती नदियों को जोड़ा जा रहा है। इस पर करीब एक लाख 30 हजार करोड़ की लागत आएगी और साढ़े सात लाख हेक्टेयर ऐसे क्षेत्र में सिंचाई हो सकेगी, जहाँ किसान केवल अच्छी वर्षा होने पर ही फसल ले पाते थे। उन्होंने कहा कि इस परियोजना के पूरा होने पर क्षेत्र में पीने के पानी की समस्या से भी निजात मिलेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सरकार हर हाल में किसानों की आर्थिक स्थिति सुधारने और खेती को लाभ का व्यवसाय बनाने के लिए प्रतिबद्ध है। आज ही सीहोर जिले के एक लाख इक्यावन हजार से अधिक किसानों के खातों में फसल बीमा योजना की 482 करोड़ से अधिक राशि जमा करवाई गई है। पिछले साल बेचे गए गेहूँ पर 200 रुपये प्रति क्विंटल के मान से बोनस दिया गया। श्री चौहान ने विभिन्न फसलों का समर्थन मूल्य बढ़ाए जाने पर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी को धन्यवाद देते हुए कहा कि इसका लाभ भी प्रदेश के किसानों को मिलेगा। उन्होंने बताया कि प्रदेश की सोयाबीन को चीन निर्यात करने के प्रयास भी किए जा रहे हैं, इससे भी प्रदेश के किसानों को फायदा होगा। मध्यप्रदेश के असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के लिए शुरू की गई संबल योजना की जानकारी देते हुए मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि यह योजना देश भर में अनूठी है। अभी तक प्रदेश में करीब दो करोड़ असंगठित श्रमिकों ने योजना में अपना पंजीयन करवाया है। गरीब परिवारों के बच्चों को नि:शुल्क शिक्षा, चिकित्सा देने की व्यवस्था संबल योजना में की गई है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अब बिजली के भारी-भरकम बिल गरीबों को परेशान नहीं करेंगे। प्रदेश के सभी जिलों में शिविर लगाकर गरीबों के बिजली के बिल माफ किए जा रहे हैं। इसके बाद उन्हें हर माह 200 रुपये महीने के मान से बिजली बिल दिए जाएंगे। इसमें चार बल्ब, दो पंखे, एक कूलर और टी.वी. चलाया जा सकेगा। अंसगठित क्षेत्र के पंजीकृत श्रमिकों को रहने के लिए जमीन तथा मकान बनाकर दिए जाएंगे। श्री चौहान ने प्रदेश के विकास के लिए सभी के सहयोग की अपेक्षा की है। इसके पहले मुख्यमंत्री श्री चौहान ने 119 करोड़ 11 लाख रुपये की लागत से 22 कार्यों का भूमि-पूजन तथा 75 करोड़ 9 लाख लागत के 6 निर्माण कार्यों का लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने सभा-स्थल के समीप वृक्षारोपण कर नागरिकों से एक पौधा अवश्य लगाने की अपील की। कार्यक्रम में लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह, नर्मदा घाटी विकास राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री लालसिंह आर्य, सांसद श्री मनोहर ऊँटवाल, विधायक श्री रणजीत सिंह गुणवान, श्री सुदेश राय, श्री जसवंत सिंह हाड़ा, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती उर्मिला मरेठा और पाठ़य-पुस्तक निगम के अध्यक्ष श्री रायसिंह सैंधव उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

विदिशा, खंडवा और रतलाम मेडिकल कॉलेज को मान्यता

मध्यप्रदेश सरकार को आखिरकार इसी सत्र से तीन और मेडिकल कॉलेज में शैक्षणिक सत्र शुरू करने में कामयाबी मिल गई। विदिशा, खंडवा और रतलाम मेडिकल कॉलेज को मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया (एमसीआई) से मान्यता मिल गई। इससे प्रदेश में एमबीबीएस की सीटों की संख्या 800 से बढ़कर 13 सौ हो जाएगी। इसी साल दतिया मेडिकल कॉलेज भी शुरू हुआ है। इसकी सूचना चिकित्सा शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने कैबिनेट को दी। केंद्र सरकार ने प्रदेश में सात मेडिकल कॉलेज बनाने को मंजूरी दी थी। एमसीआई ने छिंदवाड़ा, शिवपुरी और शहडोल को मान्यता देने के लिए दौरा ही नहीं किया। दतिया मेडिकल कॉलेज को न सिर्फ मान्यता मिल चुकी है, बल्कि इसके भवन का लोकार्पण भी हो गया है। वहीं, विदिशा, खंडवा और रतलाम मेडिकल कॉलेज का एमसीआई की टीम ने दो बार दौरा भी किया पर छुट-पुट खामियोें के चलते मान्यता नहीं दी। इसको लेकर चिकित्सा शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने एमसीआई के सामने बार-बार प्रस्तुतिकरण दिया पर जब बात नहीं बनी तो सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया। कोर्ट के निर्देश पर एमसीआई की टीम फिर से दौरा करने पर सहमत हो गई और अंतत: प्रदेश के इन तीनों कॉलेजों को मान्यता देने की सिफारिश केंद्र सरकार से कर दी। जनसंपर्क मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि पिछले दिनों मुख्यमंत्री दिल्ली गए थे और प्रदेश के इन तीन मेडिकल कॉलेजों को मान्यता देने का विषय उठाया था। इन मेडिकल कॉलेजों में छात्रों को प्रवेश इसी सत्र से मिलेगा। नए मेडिकल कॉलेजों के खुलने से एमबीबीएस की सीटें 800 से बढ़कर 13 सौ हो जाएंगी।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

bhopal aag

भोपाल शहर के एमपी नगर झोन 1 में स्थित बालाजी टॉवर की सबसे ऊपरी मंजिल में मंगलवार सुबह आग लग गई। आग इतनी तेजी से फैली कि उसने कई दफ्तरों को अपनी चपेट में ले लिया। सूचना मिलने के बाद करीब एक दर्जन दमकल मौके पर पहुंच गई थी। आग को बुझाने की कोशिश चल रही है, लेकिन अभी उस पर काबू नहीं पाया जा सका। बारिश के बाद भी इमारत से आग की लपटे उठती रहीं। लोगों को डर है कि यह आग आस-पास न फैल जाए। सूचना मिलने के बाद इमारत में स्थित दफ्तरों के मालिक और कर्मचारी भी मौके पर पहुंच गए थे। इलाके में बिजली भी बंद कर दी गई है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

आयुक्त दीपाली रस्तोगी

  मध्यप्रदेश में अपने विचारों और कार्यशैली की वजह से पिछले कुछ दिनों से चर्चा में आईं आदिवासी कार्य विभाग की आयुक्त दीपाली रस्तोगी ने प्रदेश के सभी कलेक्टर्स को विकास यात्राओं और सम्मेलन में खर्च को लेकर एक और आदेश जारी किया है। रस्तोगी ने आदेश में कहा है कि प्रदेश में निकल रही विकास यात्राओं और अन्य सम्मेलन के लिए विभिन्न योजनाओं के तहत आवंटित बजट में से पैसा खर्च न किया जाए। उन्होंने कहा कि इन विकास यात्राओं के लिए अलग से राशि जारी की गई है। यदि अन्य योजनाओं का पैसा इन सम्मेलन के आयोजन में लगाया जाता है तो इसे गंभीर वित्तीय अनियमितता माना जाएगा और संबंधित अधिकारी के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी। रस्तोगी ने कहा कि विभिन्न योजनाओं के लिए आवंटित बजट का उपयोग विकास यात्राओं के लिए किसी भी परिस्थिति में न किया जाए। दीपाली रस्तोगी ने यह आदेश पिछले महीने 23 जून को सभी कलेक्टर्स को दिया था। गौरतलब है कि इससे पहले दीपाली रस्तोगी ने आदेश दिया था कि धार्मिक राजनीतिक आयोजनों में आदिवासी बच्चों को भीड़ बढ़ाने के लिए शामिल न कराया जाए। उनका यह आदेश भी सियासी हल्कों में काफी चर्चित रहा था।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव

मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा को सत्ता से बेदखल करने गैर भाजपाई महागठबंधन की कवायद तेज हो गई है। मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले गैर भाजपाई महागठबंधन की कवायद तेज हो गई है। आगामी 2 अगस्त को आधा दर्जन छोटे दलों के भोपाल में होने वाले सम्मेलन में शिरकत को लेकर कांग्रेस और बसपा ने अभी अपने पत्ते नहीं खोले हैं, लेकिन गठबंधन के सूत्रधार पूर्व जदयू अध्यक्ष शरद यादव और बसपा सुप्रीमो मायावती की कांग्रेस दिग्गजों से अलग-अलग मुलाकातें हो चुकी हैं। महागठबंधन की स्क्रिप्ट तैयार करने में जुटे समाजवादी नेताओं का कहना है कि कांग्रेस कर्नाटक के अनुभव के बाद ज्यादा सतर्कता से कदम आगे बढ़ा रही है। उसकी चिंता है कि चुनाव बाद गठबंधन की स्थिरता पूरी विश्वसनीयता के साथ बनी रहे। मप्र के अलावा छत्तीसगढ़ और राजस्थान के लिए भी सैद्धांतिक चर्चा हुई है, लेकिन अभी सीटों की कोई बात नहीं हुई। मायावती की कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और सोनिया गांधी के अलावा अशोक गेहलोत से भी चर्चा हुई है। उधर, शरद यादव की भी कांग्रेस के दिग्गजों से मुलाकात में इसी मुद्दे पर लंबी चर्चा हो चुकी है। जदयू के पूर्व राष्ट्रीय महासचिव गोविंद यादव का कहना है कि छग में कांग्रेस के साथ गोंगपा के हीरासिंह मरकाम मंच साझा कर चुके हैं। भोपाल सम्मेलन में मरकाम और फूलसिंह बरैया सहित राष्ट्रीय समानता दल को मिलाकर छह क्षेत्रीय दल शामिल होंगे। कांग्रेस और बसपा से अभी इस मुद्दे पर चर्चा नहीं हुई है। इस सम्मेलन के बहाने गैर आदिवासी, गैर दलित और गैर कांग्रेसी हिन्दू वोटों पर फोकस किया जा रहा है। गठबंधन से जुड़े नेताओं का कहना है कि भाजपा के जनाधार में बड़ी संख्या ब्राह्मण, क्षत्रिय और वैश्य वर्ग से है। इनमें से एक हिस्सा कांग्रेस के पास भी है। इनके अलावा गैर कांग्रेसी हिन्दू में ज्यादातर कम आबादी वाले समाज और गरीब-ओबीसी वर्ग के लोग शामिल हैं। इस वर्ग को रिझाने के बाद ही महागठबंधन का उद्देश्य पूरा होगा।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

डॉ. नरोत्तम मिश्र

  जनसम्पर्क मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने दतिया में  दैनिक 'बुंदेलखंड बुलेटिन' समाचार पत्र के मध्यप्रदेश संस्करण का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि समाचार पत्रों का प्रमुख कार्य जनता की आवाज को सरकार तक तथा सरकार की आवाज को जनता तक पहुंचाना है। इस दिशा में बुंदेलखंड बुलेटिन समाचार पत्र खरा उतरेगा, ऐसी मैं कामना करता हूँ। उन्होने कहा कि दतिया में विकास की दशा और दिशा दोनों बदली है, चौतरफा विकास हो रहा है। उन्होंने कहा कि मीडिया कर्मी बदलते हुए दतिया के साक्षी बनें। इस अवसर पर समाचार पत्र के सम्पादक श्री पुरूषोत्तम नारायण श्रीवास्तव, विधायक श्री प्रदीप अग्रवाल तथा गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

shivraj singh

शासकीय कर्मचारियों द्वारा मुख्यमंत्री का सम्मान एवं आभार एमपी के मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि शासकीय कर्मचारी प्रशासन का दिल, अंतर्रात्मा और दोनों हाथ हैं। सरकार द्वारा कर्मचारियों के हितों के लिये निरंतर कार्य किये गये हैं। मध्यप्रदेश सरकार ने कर्मचारियों को अपने परिवार की तरह ही समझा है। भविष्य में भी निरंतर कर्मचारियों के कल्याण के कार्य किये जायेंगे। शासकीय कर्मचारी और सरकार मिलकर प्रदेश को समृद्ध और विकसित बनायेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान शनिवार को उज्जैन में प्रदेश के शासकीय कर्मचारियों के विभिन्न संगठनों द्वारा सम्मान एवं आभार कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। प्रदेश के शासकीय कर्मचारियों के विभिन्न 45 संगठनों द्वारा मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान का शासकीय कर्मचारियों को सातवाँ वेतनमान दिये जाने, केन्द्रीय कर्मचारियों के समान महँगाई भत्ता, अध्यापक संवर्ग को शिक्षा विभाग में सम्मिलित करने तथा सेवानिवृत्ति की उम्र 62 वर्ष किये जाने पर आभार व्यक्त किया है। मध्यप्रदेश शासकीय तृतीय वर्ग कर्मचारी संगठन के अध्यक्ष श्री रमेशचन्द्र शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सभी वर्गों का समान रूप से ध्यान रखा है और उनके हितों की रक्षा की है। मुख्यमंत्री द्वारा आँगनवाड़ी कार्यकर्ताओं और असंगठित क्षेत्र के मजदूरों के लिये भी कारगर कदम उठाये गये हैं

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

प्रदर्शनकारियों ने इंदौर में रोकी ट्रेन

इंदौर के लक्ष्मीबाई नगर रेलवे स्टेशन पर ट्रेन स्टॉपेज की मांग को लेकर रविवार सुबह बड़ी संख्या में लोग रेल रोकने पहुंचे। इंदौर। इंदौर के लक्ष्मीबाई नगर रेलवे स्टेशन पर ट्रेन स्टॉपेज की मांग को लेकर रविवार सुबह बड़ी संख्या में लोग रेल रोकने पहुंचे। लोगों का कहना है कि यहां ट्रेन का स्टॉपेज बहुत कम समय के लिए होता है, जिससे यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। इसी के साथ कई ट्रेनों का यहां स्टॉपेज है ही नहीं। इस दौरान लोगों ने ट्रेन रोक ली और इंजन पर चढ़ गए, इंदौर-भोपाल फास्ट पैसेंजर एक मिनट तक रुकी रही। इसके बाद पुलिस ने सभी को इंजन से नीचे उतार लिया। रेलवे स्टेशन पर बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात रहा। स्टेशन के चारों ओर पु‍लिस का कड़ा पहरा है, इसके बाद भी लोग ट्रेन रोकने पर अड़े हुए हैं। इसे रोकने के लिए एडीएम और तहसीलदार भी मौके पर पहुंच गए हैं। रेल रोको आंदोलन करने वालों के साथ कांग्रेस नेता कमलेश खंडेलवाल भी मौजूद हैं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

अनुराग को मैन ऑफ़ द मीडिया सम्मान

  मध्यप्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल  ने भोपाल में चर्चित पत्रकार अनुराग उपाध्याय को मैन ऑफ़ मीडिया के रूप में सम्मानित किया। जनपरिषद के 29 वे स्थापना दिवस समारोह में 2017-18  में पत्रकारिता के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने के लिए अनुराग उपाध्याय को यह सम्मान दिया गया।  पत्रकार अनुराग उपाध्याय ने इस साल एक सर्जरी के 14 घंटे बाद अस्पताल के बेड से अपने पॉपुलर हेडलाइन शो को होस्ट कर एक इतिहास रच दिया। अनुराग से पहले किसी भी ऐंकर ने अस्पताल के पलंग से शो होस्ट नहीं किया। अस्पताल से पहले दिन लोकमत समाचार के वरिष्ठ पत्रकार लेखक शिवाअनुराग पटेरिया ,दूसरे दिन दैनिक भास्कर के राहुल शर्मा और तीसरे दिन दैनिक जागरण के स्थानीय सम्पादक मृगेंद्र सिंह लाइव शो में अनुराग के साथ रहे। हेडलाइन शो और बेबाक़ बात अनुराग के फेमस शो हैं एक मेजर एक्सीडेन्ट के बाद अनुराग का पैर जांघ के पास से टूट गया ,बड़ी सर्जरी के बाद अनुराग ठीक हुए और काम पर लौटे लेकिन पैर में लगी रॉड ,प्लेटें,और नट से होने वाली तकलीफ से निजात पाने के लिये उन्होंने 20 जून 2018 को फिर सर्जरी करवाई ,इससे पहले सुबह 10:30 बजे अपना प्रोग्राम हेडलाइन शो लाइव प्रजेंट किया...शाम को ऑपरेशन के बाद 21 जून 2018 की सुबह 10:30 बजे अनुराग टीवी स्क्रीन पर अस्पताल के icu से हेडलाइन शो प्रस्तुत करते नज़र आए। टीवी  पत्रकारिता की इतिहास में ऐसा इससे पहले ऐसा कभी नहीं हुआ ,एक पत्रकार के हौसले के सामने हर चुनौती बहुत छोटी नजर आई। अनुराग के हौंसले को जनपरिषद ने मैन ऑफ़ मीडिया के रूप में सम्मानित किया।  जनपरिषद के समारोह में राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने कहा कि समाज में ऐसे ढेरों लोग हैं, जो विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य कर रहे हैं, लेकिन संस्थाएं उनको पूछती तक नहीं हैं। राज्यपाल का कहना था कि प्रदेश के जिलों, कस्बों और गांवों में कई ऐसी महिलाएं और युवा हैं, जो पर्यावरण संरक्षण, जल संरक्षण, नदी पुनर्जीवन, महिला सशक्तिकरण आदि पर उल्लेखनीय कार्य कर रहे हैं। संस्थाओं का कर्तव्य है कि वे ऐसी प्रतिभाओं का खोजें और उनका सम्मान कर उनके कार्य को भी प्रोत्साहित करें। राज्यपाल आनंदी बेन ने कहा कि वर्तमान समय में पर्यावरण संरक्षण के क्षेत्र में सबसे अधिक काम करने की जरूरत है। पूरी दुनिया ग्लोबल वर्मिंग की समस्या से जूझ रही है।  इस मौके पर मध्यप्रदेश के  पूर्व डीजीपी डीपी खन्ना की किताब 'इतिहास पुनःपुनः' का विमोचन राज्यपाल सहित अन्य अतिथियों ने किया। इसके पूर्व समारोह के प्रारंभ में जनपरिषद के अध्यक्ष और पूर्व पुलिस महानिदेशक एनके त्रिपाठी ने अतिथियों को स्वागत किया। प्रतिवेदन संस्था के उपाध्यक्ष और होमगार्ड के महानिदेशक महान भारत सागर और मेजर जनरल (पूर्व) पीएन त्रिपाठी ने प्रस्तुत किया। समारोह में पुलिस महानिदेशक ऋषिकुमार शुक्ला, ब्यूरो ऑफ आउट रीच कम्यूनिकेशन (भारत सरकार) के डीजी अनिल सक्सेना का भी सम्मान किया गया।   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

टीवी चैनल हिन्दी खबर के दफ्तर का शुभारंभ

   जनसम्पर्क, जल संसाधन और संसदीय कार्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने आज शाम यहां ई-7 अरेरा कालोनी में टी.वी. न्यूज चैनल हिन्दी खबर के कार्यालय का फीता काटकर शुभारंभ किया। जनसम्पर्क मंत्री डॉ. मिश्र ने कहा कि टी.वी. चैनल के माध्यम से जन-जन तक कल्याणकारी योजनाएँ पहुँच रही हैं। जनसंपर्क मंत्री डॉ. मिश्र ने उम्मीद व्यक्त की कि यह टी.वी. चैनल जन भावनाओं के अनुरूप कार्य करते हुए लोकप्रिय हो। इस अवसर पर टी.वी. चैनल के प्रधान संपादक अतुल अग्रवाल ने जनसंपर्क मंत्री डॉ. मिश्र का पुष्प गुच्छ से स्वागत किया। मुख्य अतिथि डॉ. मिश्र को स्मृति चिन्ह भी भेंट किया। कार्यक्रम में सांसद श्री आलोक संजर, चैनल के न्यूज डायरेक्टर श्री मनोज दुबे, सीईओ श्री मनीष अग्रवाल, ब्यूरो हेड मप्र श्री अनूप सक्सेना, जनप्रतिनिधि, पत्रकार और नागरिक उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

माइनिंग और मिनरल कॉनक्लेव

पिछले 4 सालों में खनिज उत्पादन में 6 और राजस्व में 23 प्रतिशत की वृद्धि - केन्द्रीय मंत्री श्री तोमर  इंदौर में हुई चौथी राष्ट्रीय माइनिंग और मिनरल कॉनक्लेव : शामिल हुए 21 राज्यों के खनिज मंत्री मध्यप्रदेश खनिज उत्पादन में देश के 10 प्रमुख राज्य में से एक है। खदानों की नीलामी और दोहन को बढ़ावा देने से लाखों लोगों को रोजगार मिलेगा, लेकिन खदानों का दोहन करें, शोषण नहीं। खनिज का दोहन करते समय पर्यावरण और वन का विशेष ध्यान रखें। मध्यप्रदेश में खदानों के लिये सिंगल विण्डो प्रणाली लागू की गई है। खदान नीलामी में पारदर्शिता लाने के लिये ऑनलाइन नीलामी की प्रक्रिया चल रही है। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने यह बात आज इंदौर के ब्रिलिएंट कन्वेंशन सेंटर में चतुर्थ राष्ट्रीय माइनिंग और मिनरल्स कॉन्क्लेव में कही। सम्मेलन में केन्द्रीय खनिज मंत्री सहित 21 राज्यों के खनिज मंत्री शामिल हुए। केन्द्रीय खनिज मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि देश के कुल क्षेत्रफल के एक चौथाई भाग में खनिज उपलब्ध हैं। खनिज दोहन से बहुसंख्य लोगों को रोजगार मिल सकता है। श्री तोमर ने बताया कि देश में पिछले 4 साल में 43 खनिज ब्लॉकों की नीलामी हुई है, जिससे भारत सरकार को आने वाले सालों में एक लाख 55 हजार करोड़ रुपये की आय होगी। श्री तोमर ने बताया कि खदानों के आसपास बसे ग्रामीणों और आदिवासियों के पुनर्वास के लिये 11 हजार करोड़ का प्रावधान किया गया है। पिछले 4 साल में खनिज उत्पादन में 6 प्रतिशत और राजस्व में 23 प्रतिशत वृद्धि हुई है। लोहा, हीरा, सोना का दोहन बढ़ा है। केन्द्रीय खनिज राज्य मंत्री श्री हरिभाऊ चौधरी ने कहा कि पिछले 4 साल में नई नीतियों से खदानों की नीलामी में पारदर्शिता आयी है। उन्होंने कहा कि इंदौर कॉन्क्लेव में प्राप्त सुझावों को परीक्षण के बाद राष्ट्रीय-स्तर पर लागू किया जायेगा। नीति आयोग के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री अमिताभ कांत ने कहा कि खनिज उत्पादन मेक इन इण्डिया का अभिन्न अंग है। हमारे देश में इतना अधिक खनिज है, जो 600 साल तक खत्म नहीं होगा। केन्द्र सरकार खनिज के माध्यम से राष्ट्रीय आय में बढ़ोत्तरी की नीतियाँ बना रही है। अधिकांश उद्योग प्रत्यक्ष अथवा अप्रत्यक्ष रूप से खदानों पर निर्भर हैं। फेडरेशन ऑफ माइनिंग एसोसिएशन ऑफ इण्डिया के अध्यक्ष श्री संजय पटनायक ने कहा कि खदान नीलामी में सर्वोच्च न्यायालय के निर्देशों का पालन किया जा रहा है। केन्द्रीय इस्पात सचिव डॉ. अरुणा शर्मा ने कहा कि आने वाले वर्षों में खनिज उत्पादन में 25 प्रतिशत तक वृद्धि की संभावना है। उन्होंने कहा कि मशीनीकरण से खनन उद्योग से प्रदूषण 90 प्रतिशत तक कम हुआ है। खनिज मंत्री श्री राजेन्द्र शुक्ल ने कॉन्क्लेव में शामिल विभिन्न राज्यों के खनिज मंत्रियों का आभार माना। प्रमुख सचिव खनिज श्री नीरज मण्डलोई ने कॉन्क्लेव की कार्यवाही का संचालन किया। प्रारंभ में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान और केन्द्रीय खनिज मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने विशाल खनिज प्रदर्शनी का उद्घाटन किया। खनिज पर आधारित कई पुस्तकों का विमोचन भी किया गया। कार्यक्रम में मध्यप्रदेश खनिज निगम के अध्यक्ष श्री शिव चौबे, महापौर श्रीमती मालिनी गौड़ सहित गणमान्य नागरिक और खनिज उत्पादन कम्पनियों के सीईओ और सीएमडी मौजूद थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

आनंदीबेन पटेल

राज्यपाल श्रीमती पटेल द्वारा सामुदायिक स्वास्थ केन्द्र के नवीन भवन का लोकार्पण  एमपी की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने आज बैरसिया में सामुदायिक स्वास्थ केन्द्र के नवीन भवन का लोकार्पण करते हुए कहा कि बीमारियों से बचने के प्रयास करना चाहिए। इसके लिए स्वच्छता पर विशेष ध्यान देना जरूरी है। बाजार की बाहरी वस्तुओं का सेवन साफ-सफाई के पश्चात ही करें। उन्होंने कहा कि हम स्वच्छ रहें और आस-पास स्वच्छता बनायें रखें, तो निश्चित ही बीमारियों से बचा जा सकता है। सरकार का प्रयास गावों और पिछड़े क्षेत्रों के लोगों को स्वास्थ सुविधाएं उपलब्ध करवाना है। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि महिलाओं की जिम्मेदारी है कि वे साफ-सफाई परविशेष ध्यान दें। राज्यपाल ने कहा कि शौचालयों का न होना भी नई-नई बीमारियों के होने का सबसे बड़ा कारण है। श्रीमती पटेल ने कहा कि पानी बचाने के लिये हम सभी को संयुक्त प्रयास करना चाहिए। उन्होंने कहा कि सिंचाई के लिए ड्रिप एरीगेशन बहुत आवश्यक है। बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओं की तरह ही पानी बचाओ अभियान चलाना चाहिए। उन्होंने कहा कि आज मैं राज्यपाल के रूप में नहीं, एक माता के रूप में सुझाव दे रही हूँ कि बेटियों की ओर ध्यान दीजिए, उन्हें पोषण आहार दीजिये, गर्भवती महिलाओं का रजिस्ट्रेशन करवाइये तथा समय पर टीकाकरण करवाइये। उन्होंने कहा कि बच्चों के स्वास्थ, पढ़ाई और पोषण आहार पर ध्यान देंगे, तो निश्चित ही हम स्वस्थ देश का निर्माण कर सकते हैं। सांसद श्री आलोक संजर ने कहा कि जन-प्रतिनिधियों का यह कर्तव्य है कि वे सेवाभाव से काम करें तभी हमको सफलता मिलेगी। उन्होंने कहा कि सरकार की योजनाओं का लाभ अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने का प्रयास करें। स्थानीय विधायक श्री विष्णु खत्री ने कहा कि केन्द्र की आयुष्मान भारत योजना का लाभ सभी ग्रामीणों को मिल सके, इसके लिए निरंतर प्रयास किये जायेंगे। इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष श्री मनमोहन नागर, नगरपालिका अध्यक्ष श्री राजमल गुप्ता तथा ग्रामीण बड़ी संख्या में उपस्थित थे।    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

नगरीय निकाय के चुनाव स्थगित, राज्य निर्वाचन आयोग का फैसला

 मप्र राज्य निर्वाचन आयोग ने 5 नगरीय निकाय के चुनाव को स्थगित कर दिया है। कलेक्टरों द्वारा वॉर्डों के आरक्षण में सही प्रक्रिया नहीं अपनाने और आरक्षित वॉर्डों की सूची राज्य शासन के गजट नोटिफिकेशन में प्रकाशित नहीं करने के चलते ये फैसला किया गया है। इस फैसले के बाद नगरपालिका परिषद अनूपपुर, नगर परिषद सांची (रायसेन), नगर परिषद भैंसदेही (बैतूल), नगर परिषद चुरहट (सीधी) और नगर परिषद नरवर (शिवपुरी) के चुनाव स्थगित हो गए हैं। राज्य निर्वाचन आयोग के इस फैसले से सरकार को राहत मिली है। गौरतलब है कि सोमवार को ही आयोग ने इन 5 नगरीय निकायों के लिए निर्वाचन कार्यक्रम घोषित किया था। इसके तहत 3 अगस्त को मतदान और 7 अगस्त को मतगणना होना थी। लेकिन 9 जुलाई को नगरीय विकास व आवास विभाग ने शिवपुरी और रायसेन कलेक्टर को पत्र जारी कर उनके द्वारा किए गए आरक्षण में त्रुटियों की जानकारी दी। इसके अलावा नगरीय विकास विभाग ने आयोग को भी पत्र लिखकर जानकारी दी कि अनूपपुर, रायसेन, बैतूल, सीधी और शिवपुरी कलेक्टरों द्वारा किए गए वॉर्डों के आरक्षण की अधिसूचना का प्रकाशन राज्य शासन द्वारा मध्यप्रदेश राजपत्र में प्रकाशित नहीं कराया गया। विभाग ने इस आधार पर निर्वाचन कार्यक्रम स्थगित करने का अनुरोध किया। मप्र नगरपालिका अधिनियम 1961 की धारा 29 के तहत नगरीय निकायों के क्षेत्र विस्तार और वॉर्डों के आरक्षण का विषय शासन के अधिकार क्षेत्र का विषय है। आयोग ने नगरीय विकास विभाग के पत्र का परीक्षण किया और निष्कर्ष निकाला कि वॉर्डों का आरक्षण प्रक्रिया यदि सही तरीके से नहीं अपनाई गई तो निर्वाचन प्रक्रिया दूषित होने से इंकार नहीं किया जा सकता। ऐसे में राज्य निर्वाचन आयोग ने मप्र नगरपालिका निर्वाचन नियम 1994 के नियम 23 और सहपठित नियम 11 (क) के अंतर्गत नगरपालिका परिषद अनूपपुर, नगर परिषद सांची (रायसेन), नगर परिषद भैंसदेही (बैतूल), नगर परिषद चुरहट (सीधी) और नगर परिषद नरवर (शिवपुरी) के चुनाव स्थगित करने का फैसला किया। इसके अलावा आयोग ने राज्य शासन को निर्देश दिए कि वॉर्डों के आरक्षण में सही प्रक्रिया अपनाकर उसकी अधिसूचना मध्यप्रदेश राजपत्र में प्रकाशित कर तत्काल आयोग को सूचित किया जाए जिससे इन स्थानों पर निर्वाचन की प्रक्रिया को नियमित किया जा सके।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

कांग्रेस घोषणा पत्र समिति मुद्दों पर करेगी चर्चा

 विधानसभा चुनाव  2018 में मध्यप्रदेश कांग्रेस के घोषणा पत्र के लिए बनी समिति ने प्रदेशभर में दौरे कर लिए हैं। सोमवार को पीसीसी अध्यक्ष कमलनाथ के साथ उनके निवास पर हुई बैठक में समिति के सामने आए मुद्दों पर चर्चा हुई। समिति की अगली बैठक 26 जुलाई को रखी गई है। बताया जाता है समिति के अध्यक्ष डॉ. राजेंद्र सिंह और नरेंद्र नाहटा ने भोपाल-होशंगाबाद, मीनाक्षी नटराजन ने इंदौर, उज्जैन और महाकोशल में विवेक तन्खा ने दौरे कर अलग-अलग बैठकें कीं व लोगों से मुलाकात की है। इसमें दुष्कर्म, महिला सुरक्षा, किसान, कानून व्यवस्था, प्रदेश सरकार की आर्थिक स्थिति, सरकारी कर्मचारियों-अधिकारियों के आंदोलन, बेरोजगारी, उद्योगों की परेशानी आदि मुद्दे उभरकर सामने आए, जिन पर बैठक में चर्चा की गई। उद्योगपतियों और व्यापारियों के साथ बैठक : उधर, पीसीसी में कमलनाथ के साथ प्रदेश के उद्योगपतियों और व्यापारियों की बैठक भी हुई। इसमें फैसला लिया गया कि संभाग व जिलास्तर पर उद्योग-व्यापार प्रकोष्ठ बनाने के बाद संभागीय सम्मेलन होंगे। बैठक में बिजली की दरें, रियल एस्टेट, कलेक्टर गाइडलाइन, रजिस्ट्री शुल्क, दस्तावेज पंजीयन, भू-राजस्व संहिता उल्लंघन आदि समस्याओं को रखा गया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान

एमपी के मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में एक साल में किसानों के खातों में विभिन्न योजनाओं में लगभग 35 हजार करोड़ रूपये की सहायता पहुँचाई गई है। राज्य सरकार ने नर्मदा के पानी को क्षिप्रा नदी में डालने के असंभव कार्य को संभव कर दिखाया है। आज नर्मदा मैया की कृपा से देवास को पीने का पानी सहजता से उपलब्ध है। उन्होंने कहा कि देवास, उज्जैन, शाजापुर और आगर जिलों में सिंचाई के लिए नर्मदा-कालीसिंध पार्ट-1 व पार्ट-2 तथा नर्मदा मालवा-गंभीर पार्ट-01 और पार्ट-02 तथा नर्मदा मालवा-क्षिप्रा पार्ट-2 लिंक परियोजनाओं से सिंचाई की योजना तैयार की गई है। इसमें विभिन्न चरणों में लगभग 14 लाख 20 हजार एकड़ में सिंचाई की सुविधा उपलब्ध हो सकेगी। उन्होंने कहा कि सिंचाई की व्यवस्था होने से अगले पांच साल में इन जिलों में फसलों का पूरा पैटर्न ही बदल जाएगा। मुख्यमंत्री रविवार को देवास में ‘‘किसान महासम्मेलन’’ को संबोधित कर रहे थे। किसानों के 30 हजार बेटा-बेटियों के लिये ऋण की व्यवस्था श्री चौहान ने कहा कि किसानों को फसलों को लाभकारी मूल्य दिलाने के लिए फसलों के निर्यात के भी प्रयास किए जा रहे हैं। इसके लिये एक्सपोर्ट प्रमोशन बोर्ड बनाया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में फुड प्रोसेसिंग इकाईयों की स्थापना को भी बढ़ावा देने के प्रयास किए जा रहे हैं। इस साल किसानों के 30 हजार बेटा-बेटियों को इस योजना में ऋण दिलाने की व्यवस्था की जा रही है। मुख्यमंत्री चौहान ने असंगठित श्रमिकों और गरीबों के लिए लागू की गई मुख्यमंत्री जनकल्याण (संबल) योजना में मिलने वाले लाभों की जानकारी देते हुए कहा कि अगले चार साल में हर गरीब के पास अपना पक्का मकान होगा। गरीबों, श्रमिकों के बेटा-बेटियों की उच्च शिक्षा की फीस सरकार भरेगी। उन्होंने बताया कि बिजली बिल माफी योजना में सभी गरीबों और श्रमिकों के बिजली बिल माफ करने के लिए कैम्प लगाए जा रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि मासूम बेटी के साथ अगर कोई दुराचार करेगा तो उसे फांसी की सजा देने का प्रावधान किया गया है। सागर में एक बच्ची के साथ हुई दुराचार की घटना में आरोपी को फांसी की सजा हो गई है। श्री चौहान ने महा-सम्मेलन में जनसैलाब से बेटी बचाने, बेटियों का मान-सम्मान करने, पानी बचाने, नया मध्यप्रदेश बनाने और खेती को लाभ का धंधा बनाने का आह्वान किया। महा-सम्मेलन में तकनीकी कौशल विकास (स्वतंत्र प्रभार) स्कूल शिक्षा राज्यमंत्री श्री दीपक जोशी, सांसद श्री मनोहर ऊंटवाल तथा विधायक श्रीमती गायत्रीराजे पवार ने भी विचार रखे। प्रारंभ में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना में 34 करोड़ 81 लाख लागत की 3 सड़कों का भूमि-पूजन किया। देवास जिले के लगभग एक लाख 6 हजार किसानों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में खरीफ-2017 के 552 करोड़ रुपए से अधिक की दावा राशि के भुगतान प्रमाण-पत्र वितरण कार्य की शुरूआत की। प्रतीक स्वरूप हितग्राहियों को बीमा दावा राशि के प्रमाण-पत्र भी वितरित किए। महा-सम्मेलन में प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना में 2105 हितग्राहियों को 25 करोड़ 26 लाख के स्वीकृति पत्रों का वितरण किया गया। इसके अलावा मुख्यमंत्री बिजली माफी योजना के पांच हितग्राहियों तथा प्रधानमंत्री उज्जवला योजना में दो महिलाओं को प्रतीक स्वरूप गैस कनेक्शन के प्रमाण-पत्र दिए गए। कार्यक्रम में संस्कृति एवं पर्यटन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) तथा जिले के प्रभारी मंत्री श्री सुरेंद्र पटवा, विधायक श्री आशीष शर्मा, श्री राजेंद्र वर्मा, जिला पंचायत अध्यक्ष श्री नरेंद्र सिंह राजपूत, महापौर श्री सुभाष शर्मा, म.प्र. पाठ्य पुस्तक निगम के अध्यक्ष श्री रायसिंह सेंधव, मप्र खादी ग्रामोद्योग बोर्ड अध्यक्ष श्री सुरेश आर्य सहित अन्य जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

बिजली बिल माफी योजना

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि संबल योजना प्रदेश में गरीबों का संबल बन गयी है। यह जन-आंदोलन का रूप ले चुकी है। इस योजना के अंतर्गत गरीबों के लिये मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी योजना और सरल बिजली बिल योजना वरदान सिद्ध हो रही है। मुख्यमंत्री ने बताया कि 11 जुलाई को सभी जिलों में बिजली बिल माफी प्रमाण पत्र देने और नये हितग्राहियों का पंजीयन कराने के लिये जिला स्तरीय कार्यक्रम आयोजित किया जायेगा। मुख्य कार्यक्रम रतलाम जिले के जावरा में आयोजित होगा। श्री चौहान ने कहा कि वे स्वयं जावरा से पूरे प्रदेश के हितग्राहियों को संबोधित करेंगे। उनका संबोधन दोपहर तीन बजे से सभी जिलों में सुना जा सकेगा। श्री चौहान आज अपने निवास से सभी संभागायुक्तों और जिला कलेक्टरों से वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से चर्चा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि 11 जुलाई के बाद बिजली बिल माफी और पंजीयन की प्रक्रिया लगातार चलती रहेगी। उन्होंने कहा कि इसके बाद जहाँ-जहाँ ट्रांसफार्मर कटे हैं, वे सब एक साथ जोड़ दिये जायेंगे और एक दिन प्रकाश पर्व मनाया जायेगा। श्री चौहान ने जिला कलेक्टरों और जन-प्रतिनिधियों से कहा कि 11 जुलाई को जिलों में कार्यक्रमों का आयोजन करें और बिजली बिल माफ करने तथा पंजीयन कराने के संबंध में जो भी कठिनाईयां आती हैं, उनका तत्काल समाधान भी करें। श्री चौहान ने कहा कि 11 जुलाई को जिला स्तरीय कार्यक्रम आयोजित करने के बाद स्थानीय जन-प्रतिनिधि सुविधानुसार विधानसभावार भी बिजली बिल माफी के कार्यक्रम आयोजित कर सकते हैं। विद्युत सब स्टेशनों पर भी विद्युत अधोसंरचना और निर्माण से संबंधित कामों का लोकार्पण किया जायेगा। उन्होंने कलेक्टरों से कहा कि इस योजना को अपने-अपने जिलों में नेतृत्व प्रदान करें और प्रभावी तरीके से इसका क्रियान्वयन सुनिश्चित करें ताकि गरीबों को योजना का ज्यादा से ज्यादा फायदा मिल सके। स्थानीय कार्यक्रमों में सांसद, जन-प्रतिनिधि, नगरीय पंचायत के प्रतिनिधि शामिल हों और गरीब हितग्राहियों को योजना का लाभ दिलवायें।इस कार्य में जिला प्रशासन के साथ जन-प्रतिनिधियों का समन्वय आवश्यक है। इसके लिये पहले से प्लानिंग कर लें। बरसात को देखते हुए पर्याप्त इंतजाम रखें। श्री चौहान ने कहा कि संबल योजना, बकाया बिजली बिल माफी योजना और सरल बिजली बिल योजना गरीबों के सिर से अनावश्यक आर्थिक बोझ उतारने वाली योजनायें हैं। ये गरीबी से लड़ने का सहारा देने वाली योजनाएं हैं। कोई भी पात्र गरीब परिवार इस योजना का लाभ लेने से वंचित नहीं रहना चाहिये। श्री चौहान ने कहा कि वे संबल योजना और बकाया बिजली बिल माफी योजना की निरंतर समीक्षा करेंगे और हर दिन कम से कम चार जिला कलेक्टरों से बात करेंगे। श्री चौहान ने बताया कि भवन संनिर्माण कर्मकार कल्याण मंडल में पंजीबद्ध श्रमिकों का भी स्वाभाविक रूप से संबल योजना में पंजीयन मान्य किया जायेगा। उन्होंने विद्युत वितरण कम्पनियों के फील्ड अमले की सराहना करते हुये कहा कि मैदानी अधिकारी पूरी मेहनत से काम कर रहे हैं। इस अवसर पर राजस्व मंत्री श्री उमाशंकर गुप्ता, लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह, स्थानीय जन-प्रतिनिधि प्रमुख सचिव ऊर्जा श्री आई.सी.पी. केशरी, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री श्री अशोक वर्णवाल, श्री विवेक अग्रवाल एवं वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

आनंदीबेन पटेल

राज्यपाल से मिले गुजरात राज्य से आये किसानों के दल  एमपी की राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल से आज राजभवन में गुजरात राज्य से आये किसानों के दल ने सौजन्य भेंट की और खेती के नये-नये तरीकों के बारे में अपने अनुभव साझा किये। श्रीमती पटेल ने किसानों को जैविक खेती के लिये प्रेरित करते हुए कहा कि खेती को लाभ का धंधा बनाने के लिये यह सशक्त माध्यम है। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार और प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने किसानों के लिये महत्वपूर्ण योजनाएँ लागू की हैं। उन्होंने किसानों से योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ प्राप्त करने का अनुरोध करते हुए कहा कि सरकार सहायता कर सकती है, मार्गदर्शन प्रदान कर सकती है, लेकिन योजनाओं का लाभ लेने के लिये किसानों को स्वयं आगे आना होगा। राज्यपाल ने मध्यप्रदेश में किसानों और सरकार के संयुक्त प्रयासों की सराहना करते हुए बताया कि राज्य को विगत 5 वर्ष से निरंतर राष्ट्रीय स्तर पर कृषि कर्मण अवार्ड से विभूषित किया जा रहा है। राज्यपाल ने किसानों से कहा कि अपने बच्चों को खेती से जुड़े कुटीर उद्योग स्थापित करने के लिये प्रेरित करें। सरकार की मुद्रा बैंक योजना का उल्लेख करते हुए उन्होंने बताया कि इस योजना में खेती से जुड़े कुटीर उद्योग स्थापित करने के लिये समुचित आर्थिक सहायता उपलब्ध करवाई जाती है। श्रीमती पटेल ने किसानों को सलाह दी कि खेतों और बगीचों को जानवरों से होने वाले नुकसान से बचाने के लिये आसपास बागड़ जरूर लगायें। श्रीमती पटेल ने कहा कि खेतों की उर्वरा शक्ति बनाये रखने के लिये जैविक खाद, पानी और अन्य आधुनिक संसाधनों का उपयोग आवश्यक है। उन्होंने फलों की खेती को किसानों के लिये लाभदायक बताते हुए कहा कि सीताफल, अमरूद, चीकू जैसे फलों का उपयोग आइस्क्रीम तथा अन्य उत्पाद बनाने में किया जाता है। इसकी खेती से किसान एक निश्चित अतिरिक्त आय प्राप्त कर सकते हैं। राज्यपाल श्रीमती पटेल से मिलने आये किसान भोपाल स्थित सेंट्रल इंस्टीट्यूट ऑफ एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग में प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं। राज्यपाल से मुलाकात के समय आत्मा प्रोजेक्ट गाँधी नगर और राजभवन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

umashankar gupta

राजस्व मंत्री  गुप्ता ने बाँटे संबल योजना के पंजीयन प्रमाण-पत्र  राजस्व, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री श्री उमाशंकर गुप्ता ने वार्ड-32 में मुख्यमंत्री जन-कल्याण योजना (संबल) में असंगठित श्रमिकों को पंजीयन प्रमाण-पत्र वितरित किये। उन्होंने कहा कि जल्‍द ही उन्हें स्मार्ट-कार्ड दिये जायेंगे। श्री गुप्ता ने कहा कि दलालों के चक्कर में नहीं पड़ें, सभी पात्र लोगों को संबल योजना के कार्ड दिये जायेंगे। श्री गुप्ता ने कहा कि सरकार गरीबी हटाने के लिये कृत-संकल्पित है। प्रदेश में 6 करोड़ लोगों को एक रुपये किलो की दर से गेहूँ और चावल दिया जा रहा है। लाड़ली लक्ष्मी योजना में 28 लाख से अधिक कन्याओं को लाभान्वित किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री कन्यादान योजना में कन्याओं के खाते में 25 हजार रुपये जमा करवाये जाते हैं। श्री गुप्ता ने बताया कि वर्ष 2022 तक सभी आवासहीनों को मकान देने का लक्ष्य है। उज्जवला योजना में पूरे देश में अभी तक 4 करोड़ परिवारों को नि:शुल्क घरेलू गैस कनेक्शन दिये जा चुके हैं। उन्होंने बताया कि संबल योजना में पंजीकृत परिवार के बच्चों की पढ़ाई की पूरी फीस सरकार देगी। जैसे ही आप स्कूल में कार्ड दिखायेंगे, आपकी फीस माफ होगी और अस्पताल में कार्ड दिखायेंगे तो दवाइयाँ नि:शुल्क मिलेंगी। गर्भवती महिलाओ