Since: 23-09-2009

Latest News :
मध्यप्रदेश में उपचुनाव सितम्बर के आखिरी सप्ताह में.   गैंग्स्टर विकास दुबे मुठभेड़ में मारा गया.   सिंधिया ने अपना प्लाज्मा डोनेट किया.   ज्योतिरादित्य सिंधिया कोरोना से संक्रमित.   मालगाड़ी से कुचल कर 16 मजदूरों की मौत.   साद के खिलाफ गैरइरादतन हत्या का मामला.   आरक्षक ने की युवक की बेरहमी से पिटाई.   नरोत्तम ने दी प्रदेशवासियों को रक्षाबंधन की बधाई.   भाजपा बाँट रही है घर -घर दीपक.   प्रॉपर्टी डीलर के घर पर फायरिंग.   रेप पीड़िता की एसपी से इंसाफ की गुहार.   नरोत्तम का मंदिर के बहाने दिग्विजय पर निशाना.   छत्तीसगढ़ के कण कण में बसे हैं भगवान राम.   कोरोना काल में कलेक्टर ने पेश की मिसाल.   शहर व्यवस्था देखने साइकिल से निकले कलेक्टर ,एसपी.   राज्यसभा सदस्य ने खेत में रोपा धान.   छत्तीसग़ढ में अस्थाई शिक्षाकर्मी होंगे स्थाई.   नक्सली की डायरी से मिला सुराग.  
दोनों दलों ने किए जीत के दावे
gyan singh

 

शहडोल उपचुनाव में इस बार मतदान का प्रतिशत बढ़ने को दोनों राजनीतिक दल अपने-अपने फायदे के रूप में देख रहे हैं। भाजपा का मानना है कि मतदान का प्रतिशत बढ़ने से उसे फायदा होगा और उसकी जीत क आंकड़ा बढ़ेगा। वहीं कांगे्रस का मानना है कि उम्रदराज ज्ञान सिंंह के बजाए जनता ने युवा हिमाद्री को पसंद किया है। कांगे्रस का दावा है कि मतदान का प्रतिशत बढ़ने का इसका कांग्रेस को मिलना तय है। कांग्रेस का दावा है कि उसकी प्रत्याशी अप्रत्याशित जीत दर्ज करेंगी। उसका कहना है कि नोटबंदी मुद्दे का लाभ भी उसे मिलेगा। शहडोल में जहां चार प्रतिशत बढ़ा है, वहीं नेपानगर में चार फीसदी घटा है। नेपानगर में पहले हुए चुनाव में मतदान प्रतिशत 76 था जो इस बार उपचुनाव में 72 प्रतिशत तक आ गया है। दूसरी ओर शहडोल में 62 प्रतिशत मतदान पूर्व में हुए चुनाव में हुआ था जो इस बार 66 प्रतिशत तक पहुंच गया।

मुद्दाविहीन थी कांग्रेस, लीड बढ़ना तय: ज्ञान सिंह

भाजपा प्रत्याशी और प्रदेश के आदिमजाति कल्याण मंत्री ज्ञान सिंह का कहना है कि यह चुनाव मुख्यमंत्री शिवराज सिंह द्वारा पूरे शहडोल संभाग में कराए गए विकास कार्यो को मुद्दा बनाकर लड़ा गया है। मुख्यमंत्री की सभाओ में उमड़ी भीड़ यह बताने को पर्याप्त थी कि जनता उनके कामों से खुश है। उन्होंने दावा किया कि उपचुनाव में भी विजय भाजपा की ही होगी। चार फीसदी मतदान बढ़ने पर ज्ञान सिंह का कहना था कि लोगों ने उत्साह के साथ मतदान किया है। 

हिमाद्री बेटी जैसी

हिमाद्री को लेकर दिल को देखों चेहरा न देखों गाना गाने वाले ज्ञान सिंह का कहना है कि राजनीति अलग बिषय है पर हिमाद्री हमारे समाज की है और मेरे लिए बेटी जैसी है। मैंने यह गाना उसके लिए नहीं बल्कि कांग्रेस के लिए गाया था। वे कहते हैं कि कांग्रेस इस चुनाव में मुद्दाविहीन थी। यही वजह है कि उसने इस गाने को मुद्दा बनाया और नोटबंदी पर कुप्रचार कर जनता को भ्रमित करने का प्रयास किया।

जनता समझ चुकी, भाजपा सिर्फ घोषणा करती रही: हिमाद्री

उधर हिमाद्री सिंह ने भी दावा किया है कि इस बार कांग्रेस यहां से हर हाल में जीतेगी। उन्होंने कहा कि चुनाव तो उन्होंने कई देखे हैं, लेकिन यह चुनाव खुद लड़ा। इसका अनुभव अलग रहा है। लोगों अभूतपूर्व सहयोग मिला है। युवाओं ने एक मित्र के रुप में मुझे देखा, तो वहीं बड़ों ने छोटी बहन और बेटी के रुप में मुझे आशीर्वाद दिया। इतना आशीर्वाद बेकार नहीं जा सकता। कांग्रेस कार्यकर्ता और नेताओं ने खुले मन से पार्टी के लिए प्रचार किया। यहां का विकास हमेशा कांग्रेस ने ही करवाया है, भाजपा सिर्फ घोषणा ही करती रही। जनता यह बात समझ चुकी है। इसलिए यहां पर कांग्रेस भारी मतों से जीतने जा रही है।  वहीं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव ने कहा कि भाजपा की करनी और कथनी को शहडोल लोकसभा क्षेत्र की जनता जान गई है। दोनों में अंतर उसे पता है। भाजपा सरकार ने काम किए नहीं और चुनाव के वक्त करोड़ों की घोषणाएं कर दी। इनसे कुछ नहीं होने वाला, जनता समझ चुकी की कांग्रेस ही क्षेत्र का विकास कर सकती है।

इसलिए इस बार यहां पर कांग्रेस को भारी जनसमर्थन मिला है। नोटबंदी को लेकर गरीबों को हुई परेशानी भी बड़ा मुद्दा था, कालेधन के नकेल कसने के झूठे दिखावे के नाम पर गरीब जनता को पाई-पाई के लिए मोहताज केंद्र सरकार ने कर दिया था। जनता इन सब मुद्दों को लेकर भी केंद्र सरकार ने नाराज है।

MadhyaBharat 21 November 2016

Comments

Be First To Comment....
Video

Page Views

  • Last day : 8641
  • Last 7 days : 45219
  • Last 30 days : 64212


x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved ©2020 MadhyaBharat News.