Since: 23-09-2009

  Latest News :
तीर्थयात्रियों के लिए एक बड़ी खबर.   अब जल्द ही दिखेंगे देश में विदेशी पर्यटक .   छात्रा के शॉर्ट्स पहनकर परीक्षा देने के मामले में विवाद.   गुजरात में 24 मंत्रियों ने शपथ .   लोहे के कबाड़ से बनाई PM मोदी की 14 फीट ऊंची मूर्ति .   दिल्ली में चार मंजिला इमारत गिरी.   कांग्रेस कार्यकर्ताओं की मीटिंग में पहुंचे सज्जन सिंह वर्मा.   तालाब में डूबने से 3 बच्चों की दर्दनाक मौत.   सड़कों में जलभराव ,मलेरिया डेंगू का खतरा .   आजादी के अमृत महोत्सव पर साइकिल रैली .   फिल्म रावण लीला का हिन्दू संगठनों ने जताया विरोध.   उज्ज्वला योजना कार्यक्रम मे मंत्री सखलेचा सोते दिखे.   छत्तीसगढ़ के भाजपा नेता युद्धवीर सिंह जूदेव का निधन.   प्रदेश के कई इलाकों में आज गरज-चमक के साथ होगी बारिश.   अगले कुछ दिनों में कमजोर होगा सिस्टम.   रायपुर में बढ़ रहा प्लास्टिक कचरा.   सीएम भूपेश बघेल के पिता पर कई धाराओं में मामला दर्ज.   वृंदावन पहुंची महिला आरक्षक का आरोप.  
बेटी के आगमन की खुशी में हुई पानीपुरी पार्टी

ठेले वाले ने लोगों को फ्री खिलाए 50 हजार गोलगप्पे

 

आमतौर पर लोग बेटी के पैदा होने पर उतना खुश नहीं होते जितना बेटे के लेकिन भोपाल में एक पानीपुरी वाले के यहाँ बेटी हुई तो उसने लोगों को पचास हजार रुपये के गोलगप्पे फ्री में खिलाये और अपनी ख़ुशी का इजहार किया  

कोलार के दानिशकुंज निवासी अंचल गुप्ता ने बेटी आने की खुशी कुछ अलग ढंग से मनाई | उन्होंने   लोगों को  निशुल्क पानीपूरी खिलाई | इसके लिए उन्होंने पहले 50 हजार फुल्की और उनका पानी तैयार किया  |  उसके बाद हर आने-जाने वाले को टेंट लगाकर फुल्की खिलाईं  | इसके लिए 10 स्टॉल लगाए गए थे  |  लोगों ने जमकर फुल्की का आनंद उठाया |  महिलाओं, बच्चों व बड़े-बुजुर्गों ने भरपेट फुल्की खाकर अंचल गुप्ता को बेटी के आगमन की   बधाई दी  | अंचल गुप्ता को बधाई देने क्षेत्रीय विधायक रामेश्वर शर्मा भी पहुंचे  | उन्होंने कहा कि बेटी के आगमन की खुशी मनाने का यह तरीका बहुत अच्छा लगा  | यह बेटी बचाओ व बेटी पढ़ाओ अभियान को बढ़ावा देने का जीता-जागता उदाहरण है  | घर में लक्ष्मी आने की खुशी में ऐसे ही लोगों को खुशयिां मनानी चाहिए, जिससे बेटियों को बचाया जा सके | 

अंचल गुप्ता बीते 14 साल से कोलार के बंजारी मुख्य मार्ग पर  गोलगप्पे  का स्टॉल लगा रहे हैं | उन्होंने बताया कि समाज में आज भी कई लोग बेटियों को मां की कोख में मार देते हैं  | आए दिन ऐसी घटनाएं समाचार पत्रों में पढ़ने को मिलती हैं  |  इससे ऐसा लगता है कि आखिर हम किस समाज में जी रहे हैं कि बेटियों को जन्म से पहले ही मार दिया जाता है  | इसी के चलते मैंने संकल्प लिया था कि घर में बेटी होगी तो लोगों को निश्शुल्क फुल्की खिलाऊंगा |   17 अगस्त को बेटी का आगमन हुआ |  इसके लिए पहले 50 हजार फुल्की बनाई, उनक पानी बनाया  | अन्य सामग्री तैयार की लोगों को दिक्कत न हो, इसलिए टेंट लगाकर लोगों को फुल्की खिलाईं  |  फुल्की खिलाकर एक अनोखा काम करना था तो बेटी का नाम अनोखी रख दिया  | 

MadhyaBharat 13 September 2021

Comments

Be First To Comment....
Video

Page Views

  • Last day : 8641
  • Last 7 days : 45219
  • Last 30 days : 64212


x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved ©2021 MadhyaBharat News.