Since: 23-09-2009

Latest News :
राजस्थान के बाड़मेर में भीषण हादसा .   94 साल के हुए लालकृष्ण आडवाणी.   नाबालिग बालिका के मां बनने के मामले में खुलासा.   अभी और बढ़ेंगे पेट्रोल डीजल के भाव .   मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने लगाई झाड़ू .   सोनिया गांधी बोलीं- मैं ही पूर्णकालिक अध्यक्ष.   पजल पार्किंग की ऊर्जा मंत्री तोमर ने की शुरुआत.   CM शिवराज ने पृथ्वीपुर में की कई बड़ी जनहित की घोषणाएं.   वीडी शर्मा :फूट डालकर राज करना कांग्रेस की नीति.   नितेन्द्र सिंह राठौर का भाजपा सरकार पर हमला.   वैक्सीनेशन अभियान का स्वागत .   वर्चस्व की लड़ाई में बाघ की हुई मौत.   साथी जवान ने चलाई अंधाधुंध गोलियां.   सात हजार से ज्यादा शिक्षकों की भर्ती.   छत्‍तीसगढ़ में किसानों का प्रेरणादायी प्रयोग.   भूपेश बघेल : कुछ लोगों के लिए भगवान राम केवल वोट दिलाने वाले.   कपिल सिब्बल पर भड़के मंत्री टीएस सिंहदेव.   नकली पिस्टल दिखाकर लूट ,तीन आरोपितों को पकड़ा गया.  
एलेक्स के खिलाफ होगा एक्शन
chattisghar ias

 

 
एलेक्स पाल मेनन ने अदालत पर की थी टिप्पणी
 
छत्तीसगढ़ के विवादास्पद आईएएस अधिकारी एलेक्स पाल मेनन की कोर्ट पर टिप्पणी को लेकर सामान्य प्रशासन विभाग ने नईदुनिया में प्रकाशित खबर की कटिंग और सोशल मीडिया में वायरल बयान को मुख्य सचिव कार्यालय को भेजा है। सामान्य प्रशासन विभाग की सचिव निधि छिब्बर ने इसकी पुष्टि की है।
मंत्रालय के उच्च पदस्थ सूत्रों के मुताबित मुख्य सचिव विवेक ढांड इस संबंध में भेजी गई जानकारी का परीक्षण कराएंगे और मुख्यमंत्री को एक रिपोर्ट सौंपेंगे। बताया जा रहा है कि सीएम की हरी झंडी मिलने के बाद एलेक्स पाल के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जा सकती है। वहीं, सामाजिक संगठनों ने प्रशासनिक सुधार एवं लोक शिकायत मंत्रालय में शिकायत की है।
सामाजिक कार्यकर्ता कुणाल शुक्ला ने एलेक्स पाल मेनन द्वारा सोशल मीडिया में न्यायप्रणाली के खिलाफ उंगली उठाने पर कार्रवाई की मांग की है। उन्होंने कहा कि एलेक्स शासकीय कर्तव्य के निर्वहन की संवैधानिक शपथ भूल गए हैं। वहीं, पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी भी एलेक्स के बयान पर जमकर बरसे। जोगी ने कहा कि यह रमन राज है, यहां सबकुछ चलता है।
जोगी ने सागौन बंगले में पत्रकारों से चर्चा में कहा कि आईएएस अधिकारियों के लिए आईएएस मैनुअल में गाइड लाइन होती है, जिसका सभी अधिकारियों को पालन करना चाहिए। जोगी ने कहा कि 16 साल आईएएस और दो साल आईपीएस रहने के कारण मैं इस बात को गंभीरता से समझता हूं। आज के अधिकारियों को आईएएस मैनुअल को गंभीरता से पढ़ना चाहिए और उसे समझकर पालन करना चाहिए। लेकिन प्रदेश के नए आईएएस इसका पालन नहीं कर रहे हैं।
 
MadhyaBharat 24 June 2016

Comments

Be First To Comment....
Video

Page Views

  • Last day : 8641
  • Last 7 days : 45219
  • Last 30 days : 64212
x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved ©2021 MadhyaBharat News.