Since: 23-09-2009

Latest News :
सीएम योगी के हेलीकाप्टर की इमर्जेन्सी लैंडिंग .   त्रिपुरा विधानसभा उपचुनाव में बीजेपी को तीन सीट.   महाराष्ट्र में सियासी बवाल जारी है.   मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का दर्द.   बहुजन समाज पार्टी करेगी मुर्म का समर्थन .   नहीं थम रहा महाराष्ट्र का सियासी घमासान .   सीएम करेंगे खिलाड़ियों का सम्मान .   शिक्षा के रास्ते मिलेगी कामयाबी की मंजिल.   रणजी टीम को होगा भव्य स्वागत .   पंचायत चुनाव के लिए पहले चरण का मतदान हुआ.   बैतूल में सड़क हादसा पांच लोग घायल.   कोरोना के मिले 65 संक्रमित.   नहरपारा सड़क के चौड़ीकरण से क्षेत्र के लोगों में ख़ुशी .   छात्रा को एडमीशन न देने का मामला तूल पकड़ा .   छत्‍तीसगढ़ में होगी अच्छी बारिश .   10 कांग्रेस पार्षदों ने अविश्वास प्रस्ताव लाया .   सीएम भूपेश बघेल का महाराष्ट्र को लेकर बयान.   राहुल को देखने लगी भीड़ .  
एनएसजी कमांडो की तर्ज पर बीजेपी
raman singh cm
 
 
राजेन्द्र जायसवाल
मुख्यमंत्री रमन सिंह की मानें तो बारनवापारा में चिंतन व चम्पारण में प्रशिक्षण के बाद कार्यकर्तागण एनएसजी कमांडो की तर्ज पर पार्टी व जनहित में काम करेंगे। एनएसजी कमांडो बनने का सौभाग्य जिले से 8-10 लोगों को ही मिला है। जिन्हें यह मौका नहीं मिल पाया, अब वे इसी जुगत में हैं कि उन्हें कम से कम कमांडो बनने का ही मौका दे दिया जाए। 
 
ताबड़तोड़ कार्यवाही से सकते में
कोरबा जिले में पुलिस की ताबड़तोड़ कार्यवाही से अपराधी सकते में आ गए हैं। जो दबोच लिये जा रहे हैं उन्हें सरकारी ससुराल भेजा जा रहा है और जो दड़बे में दुबक कर बैठे हैं वो पुलिस की नजरे बचाकर दांए-बांए होने की जुगत और फिराक तलाश रहे हैं। पुलिस की भी चौकस निगाहें मुखबिर तंत्र को सजग कर ऐसे लोगों को बिल से निकलते ही दबोचने के लिए घात लगाए बैठी है जो देर-सबेर दबोचे जाएंगे, ऐसा जान पड़ता है। 
 
कटघोरा में हाई वोल्टेज ड्रामा
सेक्स रैकेट पकड़ाने की सुगबुगाहट अल सुबह होने के साथ कटघोरा में हाई वोल्टेज ड्रामा भी शुरू हो गया। सोशल मीडिया में सुर्खियां बने इस मुद्दे को लेकर दो दल विशेष के युवाओं में खासी तकरार के बीच मामला थाना पहुंच गया। एक-दूसरे के शिकवा-शिकायत का मामला आत्मदाह तक जा पहुंचा। अंतत: दिन ढलते-ढलते मामला भी धुंधला होता गया और शिकायतों को लेकर समझाईश दी गई। इस पूरे घटनाक्रम से कटघोरा और कोरबा में खासी सनसनी मची रही। 
 
अस्पतालों में नो रूम
मौसम की बेरूखी ने अस्पतालों में पहुंचने वाले मरीजों को दरवाजे से लौटने पर मजबूर कर दिया है। डायरिया, उल्टी, दस्त, बुखार, मलेरिया और तमाम मौसमी तकलीफों से जकड़े मरीज अस्पतालों की चौखट से मायूस होकर लौटते हैं। मरीजों की भरमार ने अस्पतालों में एक तरह एंट्री से रोक लगा दी है। अब मरीज और उसके परिजन घर से निकलने से पहले यह दुआ जरूर करते हैं कि एकाध बिस्तर खाली मिल जाए तो एडजेस्ट कर काम चला लेंगे। 
 
अब सांपों की आई शामत
अपनी मौजूदगी और कल्पना मात्र से होश उड़ा देने वाले विषधरों की शामत आने लगी है। एक नहीं दो मामले दर पेश आए जब किसी विषधर ने डंसा और उसे फौरन गिरफ्त में ले लिया गया। कभी इंसानों में भय का कारण बने सर्पों को अब अपने जान के लिए डरना पड़ रहा है। पुलिस भी ऐसे मामलों में फरियादी और धारा की तलाश कर रही है कि ऐसे मामलों पर आखिर विराम कैसे लगाया जाए?
 
जेल जाएंगे जोगी समर्थक
आत्मदाह मामले में नगर बंद करा रहे जोगी समर्थकों के मंसूबे पुलिस-प्रशासन ने नाकाम कर उन्हें अस्थायी जेल में भेजा था। अब जोगी समर्थकों ने स्वयं से जेल जाने की ठानी है। सर्व सुलभ मुद्दा महंगाई और भ्रष्टाचार खत्म करने की मांग को प्रभावी तरीके से दर्शाने की तैयारी में जुटे समर्थकों ने ऐलान किया है कि सिर्फ जिला जेल नहीं बल्कि उप जेल को भी भरने का बीड़ा उन्होंने उठाया है। 
 
पीछे छूटती कांग्रेस
मुद्दों पर त्वरित निर्णय और प्रदर्शन के मामले में जोगी समर्थक कांग्रेस से मुद्दों को छीन कर आगे बढ़ निकले हैं। विपक्ष की भूमिका में कांग्रेस जिस तरह पहले मुद्दों को लपक लिया करती थी और त्वरित टिप्पणी भी नजर आती थी, वह काम इन दिनों जोगी समर्थक बड़ी सक्रियता से कर रहे हैं। ऐसा जान पड़ता है कि मुद्दों के मामले में कांग्रेस पीछे छूटती जा रही है और सत्तापक्ष के लोग भी चुटकियों का मजा ले रहे हैं। 
 
सर्वमंगला के दरबार में विश्व की चिंता
सबकी चिंता हरने वाली मां सर्वमंगला के दरबार में विश्व के चिंतकों ने कोयला और बिजली के कारण बढ़ रहे संकट पर चिंतन-मनन किया। सरकार के दरबार में हाजिरी लगाते-लगाते सुनवाई नहीं हुई तो मां सर्वमंगला की छत्रछाया में तीन दिनो से वैश्विक संकट से रक्षा की गुहार लगाई गई। 14 प्रदेशों के प्रतिनिधियों ने गहन-मनन कर सरकार को भी भावी खतरों से सजग किया है। 
 
और अंत में 
नगर में काफी गोपनीय व सधे हुए तरीके से पुलिस ने नाबालिग लड़की से देह व्यापार का मामला उजागर किया। हाई प्रोफाईल इस मामले में जिस्म फरोशी करने वालों से जिनकी निकटता है, उनके होश फाख्ता हो गए। सारा दिन यही पता करने में जुटे रहे कि कहीं उनका तो नाम नहीं लिया गया। जो लोग इस दायरे में आने से बच गए, वे ईश्वर का धन्यवाद करते दिखे। 
 
एक सवाल आप से ?
रैकेट से जब्त मोबाईल में किन 4 फरार लोगों का नंबर है जिनकी पुलिस तलाश कर रही है? 
MadhyaBharat 1 August 2016

Comments

Be First To Comment....
Video

Page Views

  • Last day : 8641
  • Last 7 days : 45219
  • Last 30 days : 64212


x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved ©2022 MadhyaBharat News.