Since: 23-09-2009

  Latest News :
योगी ने दिए सभी विधायकों को निर्देश.   जूं मारने की दवा से कोरोना का इलाज.   देश में बन रहा कोरोना का टीका.   पीएम मोदी ने की दीपक मोमबत्ती जलाने की अपील.   दिल्ली का शाहीन बाग खाली.   भारत की कोशिशों को WHO ने सराहा.   सुबह 8 से शाम 4 बजे तक खुलेंगी दुकाने.   सड़क पर घूम रहे व्यक्ति की पुलिस ने की पिटाई.   कंपनी में चायनीज व्यक्ति को लेकर प्रशासन अलर्ट.   कलेक्टर ने किया क्वारंटाइन सेंटर्स का निरीक्षण.   लॉक डाउन तोड़ने वालों को पुलिस की समझाइस.   मुरैना में 12 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए.   बच्चे कर रहे हैं बड़ों को जागरूक.   आदिवासियों ने बनाया अपना देसी मास्क.   लॉकडाउन में भूपेश सरकार ने लिए बड़े फैसले.   मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शहीदों को दी.   सुकमा में नक्सली मुठभेड़ 17 जवान शहीद.   छत्तीसगढ़ में मिला कोरोना का पहला पॉजिटिव केस .  

छिंदवाडा News


 Wood seated

लकड़ी के अवैध कारोबार का खुलासा   परासिया में ऑटो से कीमती लकड़ियां तस्करी करने का मामला सामने आया है  | वन विभाग ने छापा मार कार्यवाही करते हुए ऑटो  से  लकड़ियां की  सिल्लियां   जप्त कीं |  परासिया के वन विभाग ने लकड़ियों की सिल्लि की जप्ती है  |  जिसकी कीमत लगभग 36  हजार बताई जा रही है |  बहुत दिनों से वन विभाग  की  टीम लकड़ी का अवैध कारोबार करने वालों पर निगाह रखे थी  |  सूचना मिलने पर एक ऑटो को  घेरा गया  |  जिसमे लकड़ी की सिल्लियों की तस्करी की जा रही थी |  परासिया  में अवैध लकड़ी की कटाई  और  तस्करी बढ़टी  जा रही है   |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 March 2020

 CORONA VIRUS

कोरोना पर अफवाह फैलाने वाला लगाया था परचा   छिंदवाड़ा में  कोरोना वायरस की  अफवाह फैलाने वाले व्यक्ति को पुलिस ने  हिरासत में ले लिया है  |  इस व्यक्ति ने एक क्लीनिक के बाहर कोरोना वायरस को लेकर  गलत अफवाह फैलाई थी  | जिसके बाद इस पर कार्यवाई की गई  |  छिंदवाड़ा के परासिया में एक व्यक्ति को कोरोना वायरस को लेकर अफवाह फैलाना महंगा पड़  गया  | बताया जा रहा ही की  बत्रा क्लिनिक पर एक व्यक्ति ने कोरोना वायरस को लेकर  गुमशुदा आदमी का पर्चा लगा दिया |  जिससे शहर में ख़ौफ़ बैठ  गया  | जिसके बाद पुलिस ने जांच शुरू की तो पता चला की |  ये किसी व्यक्ति द्वारा अपवाह फैलाई गई थी  | और गलत पर्चा लगा दिया गया था | अफवाह  फैलाने वाले व्यक्ति को पुलिस हिरासत में लिया है  गौरतलब है की प्रशासन द्वारा कोरोना वायरस को लेकर सतर्कता बरती जा रही है  | और अफवाह फैलाने वाले व्यक्तियों पर शख्त कार्यवाई की जा रही है  |         

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 March 2020

 Take the vine out of the well

युवक ने निकला बहार     इंसानियत जीवित हैं इस लिए दुनिया चल रही हैं | जब एक बैल कुए में गिर गया तो एक युवक ने बैल को कुएं से निकाल ने के लिए खुद की जान की बाजी लगा दी |  परासिया के मायावाडी गाँव में एक कुआ में बैल जा गिर गया  |  लोग तमाशा देखते रहे मगर बचाने का प्रयास कोई नहीं कर रहा था  | वहां खड़े एक युवक की इंसानियत जाएगी उससे बैल की छटपटाहट नहीं  देखी गई और वो बैल को बचने के लिए कुएं में बिना अपनी जान की परवाह किये बगैर उतर गया   वहां खड़े लोगों की मदद से उसने बैल को रस्सी के सहारे सुरक्षित बहार निकाल लिया  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 March 2020

 JYOTIRADITYA SCINDIYA

कोंग्रेसियों ने जलाया ज्योतिरादित्य का पुतला   दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में आने से  सबसे ज्यादा झटका कमलनाथ समर्थकों को लगा है |  छिंदवाड़ा में कोंग्रेसियों ने सिंधिया का विरोध किया और उनका पुतला जलाया  |   मुख्यमंत्री कमलनाथ समर्थकों ने  छिन्दवाड़ा जिले में कई जगह बीजेपी में शामिल हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया का विरोध किया है |  सिंधिया के कांग्रेस छोड़ने से मुख्यमंत्री कमलनाथ की कुर्सी हिल गई है |  यही वजह है छिंदवाड़ा में जगह जगह कोंग्रेसी सिंधिया का पुतला जला रहे हैं  |  परासिया में भी कोंग्रेसियों ने सिंधिया का पुतला दहन किया और उन्हें विभीषण और गद्दार तक कहा |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 March 2020

MAARPEET

महिला के ससुराल ना जाने पर परिवार के साथ मारपीट   छिंदवाड़ा में एक महिला ने अपने ससुराल पक्ष पर दहेज़ प्रताड़ना का  आरोप लगाया है  | महिला का आरोप है की उसके ससुराल वालों ने दहेज़ के लिए उसे परेशान किया |  और ससुराल वापस जाने से मना  करने पर  | उसके और उसके परिवार के साथ मारपीट  की  |  जिसमें उसके पिता को गंभीर चोटें आई हैं | छिंदवाड़ा में  परासिया  के  ग्राम पंचायत इकलहरा में बशीर अहमद के घर बहू को लेने पति और उसका परिवार पहुंचा था |  लेकिन लड़की को ससुराल ले जाने को लेकर  ससुराल पक्ष का लड़की वालों से  विवाद हो गया  |  बताया जा रहा है की लड़की का पति 2 साल से सऊदी अरब में था |  और आने के बाद पत्नी  लेने   वह ससुराल पहुंचा तो |  पत्नी ने साथ आने से मना कर दिया  |  कारण पूछने पर युवती ने बताया कि पिछले 2 साल से |  उसको ननद, जेठ द्वारा  देहज के लिए परेशान किया जा रहा था |  जिसके चलते वह दो साल से मायके में रह रही थी |  लड़की का आरोप है की जब उसने ससुराल जाने से मना कर दिया तो उसके ससुराल वालों ने  मिलकर | उसके साथ साथ उसके  पिता और  मां के साथ मारपीट  की  | जिससे उसके  पिता  के सिर में गहरी चोट आई  है  | लड़की ने बताया की  मारने के पश्चात ससुराल से आये चारों लोग  घर से भाग गए   | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 March 2020

 Camera installation

आपराधिक घटनाओं पर अंकुश लगाने सौंपा ज्ञापन   छिंदवाड़ा में बढ़ रही आपराधिक घटना  और चोरी की वारदातों को रोकने के लिए चौराहों पर सीसीटीवी कैमरा लगाने की मांग की जा रही है | इसको लेकर स्थानीय रहवासियों ने तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा है |  मुख्यमंत्री कमलनाथ के गृह जिले छिंदवाड़ा में बढ़ रही आपराधिक घटनाओ से स्थानीय रहवासियों में काफी रोष है  | आये दिन असमाजिक तत्वों द्वारा हो रही आपराधिक घटनाओ से स्थानीय लोग परेशान हो चुके हैं | जिसको लेकर  न्यूटन नगर परिषद के चौराहे पर लोगों ने सीसीटीवी कैमरे लगाने की मांग की है  | गौरतलब है की कुछ दिन पूर्व इसी चौराहे के पार्क में कुछ असमाजिक तत्वों ने हाथी के पुतले को  आग लगा दी थी  |  कई बार मंदिरों में चोरी की घटना भी हुई |  ऐसी घटनाओं पर अंकुश लगाने  के लिए लोगो ने तहसीलदार को  ज्ञापन  सौंपा |  और जल्द से जल्द नगरों के चौराहे पर कैमरे लगाने की मांग की   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 March 2020

 Cow protection memorandum

कमलनाथ को गौ रक्षा का वचन दिलाया याद   बजरंगदल और विश्वहिन्दू परिषद ने गौ रक्षा को लेकर तहसीलदार को मुख्यमंत्री कमलनाथ के नाम ज्ञापन सौपा |  चुनाव के समय कांग्रेस ने जो गौ रक्षा को लेकर वचन दिया था वो याद दिलाया  | साथ ही गौ शाला बनवाने की मांग की  |   छिन्दवाड़ा  के परासिया में बजरंगदल और विश्व हिंदू परिषद ने मुख्यमंत्री कमलनाथ के नाम  तहसीलदार को ज्ञापन |  देकर मांग की हैं बजरंगदल ने  गौ माता की रक्षा और गौ शाला की जमीनों पर अवैध कब्जे को लेकर मुख्यमंत्री से कार्यवाई की बात कही हैं |   लोगों का कहना है की मुख्यमंत्री कमलनाथ ने चुनाव से पहले  वचन दिया था की  |  गौ माता की रक्षा  की जाएगी  | और हर पंचायत में  गौ शाला खुलवाई जाएगा |  लेकिन लगता है की सरकार अपने वचन भूल गई है  |  इसलिए ज्ञापन के माध्यम से हम वचन याद दिलाना चाहते हैं  | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 March 2020

 Saga discourse

कार्यक्रम में बड़ादेव की स्थापना की गई   छिंदवाड़ा में  बड़ादेव स्थापना एवं  तीन दिवसीय कोयापुनेम गाथा प्रवचन कार्यक्रम का आयोजन हुआ  |  इस मौके पर  बड़ी संख्या में श्रद्धालु मौजूद रहे  |  छिंदवाड़ा में परासिया तहसील के खिरसाडोह बस्ती में बड़ादेव स्थापना एवं  तीन दिवसीय कोयापुनेम गाथा प्रवचन का आयोजन हुआ  | इस दौरान पुरानी संस्कृति को याद करते हुए लोगों ने|  पुरानी पद्धति से पूजा अर्चना की  |  प्रवचन में लोगों को देवी देवताओं और प्राकृतिक शक्ति के बारे कथा वाचक ने बताया   कार्यक्रम | में सबसे पहले बड़ा देव की स्थापना कर पूजा की गई |  आयोजन के बाद भंडारा  हुआ |   इस दौरान बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 February 2020

  Police officer assault

गुंडों ने सरेराह पुलिस आरक्षक के साथ की मारपीट गुंडों को नेताओं का संरक्षण जनता असुरक्षित   कमलनाथ सरकार में गुंडे बदमाश किस कदर हावी हैं  इसका  अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है की  |  खुद मुख्यमंत्री कमलनाथ के गृह जिले छिंदवाड़ा में  | जब एक पुलिस वाले ने तेज रफ़्तार चला रहे बाइक वाले को धीरे चलाने की नसीहत दी तो  | .बाइक सवार गुंडों ने पुलिस आरक्षक के साथ ही  मारपीट कर दी  | बदमाशों ने पुलिस आरक्षक की  वर्दी भी फाड़ दी |  ये बदमाश कोई  और नहीं   | बल्कि नेताओं से संरक्षण प्राप्त छुटभैये गुंडे हैं  .|  आम जनता की तो छोड़िये पुलिस आरक्षक अब खुद न्याय के लिए भटक रहा है  | जब राज्य की पुलिस ही सुरक्षित नहीं है  |  तो जनता को सुरक्षा कैसे मिलेगी |  यह बड़ा सवाल है  |  मुख्यमंत्री कमलनाथ के गृह जिले छिंदवाड़ा  में नेताओं से संरक्षण प्राप्त गुंडों ने  | आम जनता के साथ साथ पुलिस वालों की भी  नाक में भी दम कर रखा है  | परासिया थाने के अंतर्गत  बायपास रोड़ पर एक पुलिस आरक्षक ने मोटर सायकिल वालो को जब स्टंट करने और तेज बाइक चलाने से मना किया तो  |  तो इन गुंडों को इतना नागवार गुजरा की उन्होंने पुलिस आरक्षक की गाड़ी के सामने बाइक लगा दी  | और फिर  मार पीट की   | इतना ही नहीं पुलिस आरक्षक की वर्दी भी फाड़ दी गई  | आइये हम आपको दिखाते है कैसे बेखौफ  चार गुंडों  ने मिलकर पुलिस आरक्षक के साथ मारपीट की  | फिर सुनाते है आरक्षक की आपबीती  |  इस घटना के बाद पुलिस आरक्षक ने थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई  | थाना प्रभारी ने चार लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है  |  जिसमे से एक आरोपी की गिरफ्तारी की जा चुकी है  | और तीन फरार बताये जा रहे है  | राजनेताओं के दबाव को लेकर थाना प्रभारी ने कहा  | इसमें नेताओं के दबाव की कोई बात नहीं  | जो गलत किया है उसपर कार्यवाई जरूर की  जाएगी  | सूत्रों की माने तो कुछ आरोपियों की रसूखदारों  ने  शिफारिस भी की है  |  कई रशुखदार नेताओं के शरण पाने से इन अपराधियो के भाव बढ़े है   सत्ता बदलते ही कुछ लोगो के हौसले बुलंद हो गए |   जो पुलिस के ऊपर हाथ उठा  रहे है  | जब पुलिस ही कमलनाथ सरकार में सुरक्षित नहीं है   तो जनता क्या सुरक्षित  महसूस करेगी   | अब पुलिस आरक्षक न्याय की मांग कर रहा है | आरोपियों  महफूज,हैदर,अयान,फरदीन इन चार आरोपियों में से एक आरोपी पकड़ा गया है   बाकी तीन की तलाश जरी है  गृह मंत्री बाला बच्चन जी आज ये पुलिस और जनता आपके गुंडों के सामने बेसहाय है  | लेकिन कल ऐसा न हो की जब आपको जनता की जरूरत पड़े तो वो भी आपसे मुँह मोड़ ले  बाकी आपकी मर्जी |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 February 2020

 Future of female students

छात्राओं से शौचालय के लिए ढुलवाया जाता है पानी छिंदवाड़ा मॉडल की पोल खोलते शासकीय स्कूल   एंकर - मुख्यमंत्री कमलनाथ जी | आईफा अवार्ड प्रदेश में करवाकर पता नहीं आप प्रदेश को कौन सी उचाईयां पर ले जा रहे हैं  .... मगर शायद प्रदेश के लिए बेहतर ये हों की उन उचाईयों से नीचे आकर आप जमीनी हकीकत को देखे  |  छिंदवाड़ा मॉडल की तर्ज पर मध्यप्रदेश का विकास करने की बात कहकर   आप सत्ता में तो आ गये  | मगर सरकार आपके मॉडल छिंदवाड़ा के ही हाल ख़राब हैं  | कमलनाथ के मॉडल छिंदवाड़ा में कल का भविष्य गढ़ने वाले स्कूली छात्रों के शासकीय स्कूल में पढ़ाने के लिए शिक्षक ही नहीं हैं |  और ना ही बच्चों के लिए कोई सुविधा ही हैं |  सुनिए कमलनाथ जी |  अब इससे ज्यादा शर्मनाक बात क्या होगी की स्कूल की छात्राओं से शौचालय के लिए पानी ढुलवाया जा रहा  |  तस्वीरें कभी झूठ नहीं बोलती |  शासकीय स्कूलों की ये तस्वीरें मुख्यमंत्री कमलनाथ के छिंदवाड़ा विकास की पोल खोल रही है |  मुख्यमंत्री कमलनाथ जी आइये आपको दिखाते है  | छिंदवाड़ा मॉडल की कुछ तस्वीरें  |  ये आपके विकास की कहानी कहती हैं | ये तस्वीरें आपके छिंदवाड़ा के परासिया के दरबई गाँव मे शासकीय स्कूल की हैं   | ये आपके आईफा की  चकाचौंध से बिलकुल उलट हैं  |  हालात बेहद गम्भीर हैं |  मुख्यमंत्री जी आप छिन्दवाड़ा जिले को शिक्षा के क्षेत्र में ऊँचा बताते है |  लेकिन तस्वीरें तो कुछ और ही बयान कर रही हैं  | यहाँ के शासकीय  स्कूल में शिक्षक यदा कदा ही मिलते है  |  पढ़ाई के नाम पर बच्चों के साथ अमानवीय व्यवहार किया जा रहा है |   पढ़ने आये बच्चों से शौचालय के लिए पानी ढुलवाया जा रहा|  अब आप सुनिए की स्कूल में पढ़ने वाली तीसरी कक्षा की छात्रा क्या कह रही हैं |  सुना आपने तीसरी कक्षा में पढ़ने वाली राजनंदनी कह रही हैं की  |  नागवंशी मेडम रोजाना संडास के लिए पानी ढुलवाती है |  अब देखिये शिक्षकों के हाल | इनमे भी बच्चों को पढ़ाने में ज्यादा रूचि दिखाई नहीं देती  |  शिक्षक आयेदिन स्कूल से गायब रहते है  |  और पूछने पर पता चला की वे शादी समारोह में गए है  | अब प्रदेश में स्कूलों की शिक्षा का क्या स्तर हैं यह तस्वीरें देख कर साफ़ समझ आता हैं | बच्चों की पढ़ाई से ज्यादा शिक्षकों का शादी में जाना ज्यादा जरूरी है  |  अब - जब इस बारे में अधिकारी से बात की गई तो  |  अधिकारी ने यह कह कर पल्ला झाड़ लिया की उन्हें इस बारे में ज्यादा जानकारी ही नहीं है | जब अधिकारी को समस्या भी बता दी |  तो उनका जवाब सुनकर आप भी हैरान हो जायेंगे  | उन्हेने बड़ी ही मासूमियत से जवाब दे दिया की स्वच्छता के तहत यह कार्य किया जा रहा होगा  | अब सवाल यह है की बच्चे पढ़ने आते हैं या स्वच्छता के नाम पर शौचालय के लिए पानी ढोने  | अब आप ही बताईये की बच्चों के साथ ऐसा व्यवहार कहाँ तक सही है |  हालाँकि अधिकारी ने शिक्षक की गैरमौजूदगी में कार्य करवाए जाने की आलोचना भी की  |  और जांच कराने की भी बात कही  |  मुख्यमंत्री कमलनाथ जी और शिक्षा मंत्री प्रभु राम चौधरी जी   | जरा फ़िल्मी सितारों की जगमगाती दुनिया से बहार आकर आपने राज्य में बच्चों का भविष्य के साथ हो रहे खिलवाड़ को रोकिये  |  नहीं तो जैसे इनका भविष्य अंधकार में हैं वैसे की कही आपकी सरकार का भविष्य भी अन्धकार की ओर ना चला जाए   | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 February 2020

 Invalid recovery memo

कोल ट्रांसपोर्ट ने की कोयला व्यापारी के साथ बैठक   भारतीय कोयला खदान मजदूर संघ सार्वजनिक क्षेत्रों के उद्योगों को बचाने के लिए संघर्षरत है  |  इसको लेकर कोयला खदानों में गेट मीटिंग की जा रही है  |  इसी संबंध में बीएमएस ने कलेक्टोरेट में धरना प्रदर्शन की चेतावनी भी दी है |  वहीँ कोल ट्रांसपोर्ट ने भी कोयला व्यापारी के साथ बैठक की  |  ट्रक भरवाने के लिये 500रु टन से वसूली के अवैध काम के लिए मुख्यमंत्री कमलनाथ को ज्ञापन सौपने की बात कही |  जिला छिन्दवाड़ा के परासिया में कोयला व्यपारी और ट्रांसपोर्ट यूनियन की बैठक हुई   जिसमे ट्रक यूनियन ने कोयला व्यपारी को अवैध रु देने से इनकार किया  |  लम्बे समय से ट्रक में कोयला भरवाने के लिये कोयला व्यपारी को 500रु टन के हिसाब से देना पड़ता था  |  इसी बात को लेकर आज दोनों ने बीच मे बैठक हुई और ट्रक यूनियन ने इसकी शिकायत मुख्यमंत्री कमलनाथ को ज्ञापन देकर करने का निर्णय लिया  |  परासिया के भारतीय कोयला खदान मजदूर संघ सार्वजनिक क्षेत्रों के उद्योगों को बचाने के लिए संघर्षरत है  |  इसको लेकर कोयला खदानों में गेट मीटिंग की जा रही है |   इसी संबंध में बीएमएस ने कलेक्टोरेट में धरना प्रदर्शन की चेतावनी दी |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 February 2020

 Village panchayat becomes warehouse pile

नहीं बची है ग्रामीणों की समस्या सुनने की जगह   छिंदवाड़ा के  एक ग्राम पंचायत में सरपंच पति ने सभाकक्ष को  सीमेंट बोरी का  गोदाम बना दिया है  ...जिस सभाकक्ष में ग्रमीणो की समस्या सुनी जानी चाहिए  |  वहां सीमेंट की बोरियां और गन्दगी का भडार लगा हुआ है  |  छिंदवाड़ा में  परासिया विधानसभा के बेलगांव ग्राम पंचायत की सभाकक्ष को सरपंच पति द्वारा गोदाम बना दिया गया है |  जिस सभाकक्ष में ग्रामीणों की समस्या सुनी जानी चाहिए वहाँ अब सीमेंट की बोरियां रखी जा रही है |  सभाकक्ष में गन्दगी का भण्डार लगा हुआ है |  यहाँ ना तो सरपंच के बैठने की जगह बची है  | ना ही सचिव के बैठने की | जगह जगह बोरियां नजर आती है  | जब इस बारे में सरपंच पति से बात की गई तो वो पल्ला झाड़ते नजर आये | सरपंच पति का कहना है की यहां कार्य चल रहा है तो बोरियां कहाँ रखेंगे  | अब सवाल यह की अगर सभाकक्ष सीमेंट की बोरिया रखने के लिए है तो फिर ग्रामीणों की समस्या सुनने और कार्य करने की जगह कौन सी है  | खैर हम आपको सुनाते है सरपंच की दलील |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 February 2020

 Sarpanch accused of corruption

कांग्रेस पर सत्ता के दुरुपयोग का लगाया आरोप   छिंदवाड़ा की एक ग्राम पंचायत में भाजपा के सरपंच पर भ्र्ष्टाचार के आरोप  |  के विरोध में गाँव के चार पांचों ने स्तीफा दे दिया |  ग्रामीणों ने कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए कहा की   | जब से कांग्रेस सत्ता में आई है | भाजपा सरपंच पर जबरदस्ती भ्रष्टाचार के आरोप लगाए जा रहे है |  ग्रामीणों ने प्रशासनिक अधिकारीयों पर भी पक्षपात करने का आरोप लगाया है |  छिंदवाड़ा में  परासिया के भाजीपनी ग्राम पंचायत में भाजपा सरपंच के ऊपर भरस्टाचार का आरोप लगाया जा रहा हैं   | इन आरोपों के विरोध में   गाँव के 4 पांचों  ने स्तीफा दे दिया  |   सरपंच और ग्रामीणों का कहना है कि कांग्रेस की सत्ता आने के बाद  जबरदस्ती भाजपा सरपंच के ऊपर भरस्टाचार का आरोप लगाया जा रहा है  |  ग्रामीणों ने कहा  की सरकार भ्रष्टाचार की निष्पक्ष जांच करे|  और जो भी आरोपी पाया  जाए  उसको सजा मिले| ग्रामीणों ने आरोप लगाया की कांग्रेस की सरकार  जांच के आदेश नही दे रही है  |  और सरपंच पर आरोप लगा रही है  |  कांग्रेस को भय है की आने वाले चुनाव में उसकी पोल खुल  जाएगी  |  गौरतलब है की  भाजपा सरपंच मनीष यादव  भाजीपनी क्षेत्र से सरपंच  है  |  और इस क्षेत्र से कांग्रेस को कभी जीत नहीं मिली है    इसी वजह से इस क्षेत्र  के भाजपा सरपंच के ऊपर आरोप  लगाया जा रहा है  |  पंचो का आरोप है की  प्रशासनिक अधिकारी भी जांच निष्पक्ष तरीके से  नही कर रहे है |   जिसके चलते हम सभी पंचों ने भी स्तीफा दे दिया है |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 January 2020

 Unique Girls College Rally

भफ्रत माता की बनाई झांकी दिया एकता का सन्देश   यूनिक गर्ल्स कॉलेज ने 26जनवरी गड़तंत्र दिवस पर भारत माता की झांकी बनाकर रैली निकाली |  छात्राओं ने सन्देश दिया किया की हमारा धर्म कोई भी हो   हम पहले भारतीय हैं और हमें भारतीय होने [पर गर्व होना चाहिए |  छिन्दवाड़ा के परासिया में यूनिक गर्ल्स कॉलेज छात्राओं ने भारत माता की तस्वीरें हाथ में लेकर |  भारत का नक्शा थाम कर रैली निकाली | छात्रों का कहना था की |   हिन्दु, मुस्लिम,सिक्ख,ईसाई, छोड़कर सर्वप्रथम हम भारतीय हैं  | सबसे पहले हमे राष्ट्र को ऊपर रखना चाहिए और भारतीय होने का गर्व करन चाहिए   |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 January 2020

 Collector Office siege

लोगों ने दी पंचायत चुनावों का बहिष्कार करने की चेतावनी   छिंदवाड़ा में सरपंच के समर्थन में सैकड़ों मतदाताओं ने कलेक्टर ऑफिस का घेराव किया | और सरपंच के समर्थन के साथ दोषी अधिकारीयों और राजनेताओं के खिलाफ कार्यवाई की मांग की | कार्यवाई नहीं होने पर  मतदाताओं ने त्रिस्तरीय ग्राम पंचायत चुनावों का  बहिष्कार करने की चेतावनी दी है |  छिंदवाड़ा में परासिया जनपद के अंतर्गत ग्राम पंचायत भाजीपानी के मतदाताओं द्वारा सरपंच मनीष यादव के समर्थन में कलेक्टर ऑफिस का घेराव किया गया  और   षड्यंत्र कारी आवेदक के  खिलाफ जाँच करने की अपील की | मतदाता बंधुओं ने पंचायत राज एवं ग्राम स्वराज अधिनियम की धारा 40 एवं 92 का विरोध  जताया  | मतदाताओं का कहना है की ग्राम के सरपंच के ऊपर षड्यंत्र कारी पूर्व जनपद सदस्य रजनी राय , ललित सूर्यवंशी एवं sdo मनोज बटाबिया की जाँच होनी चाहिए  | सरपंच ने कांग्रेस द्वारा की गई द्वेष पूर्ण कार्यवाई की निंदा की  |  और कहा की  इस प्रकार की कार्यवाही से ग्राम के जनसेवकों का मनोबल टूट रहा है  |  जिसका सीधा परिणाम आने वाले त्रिस्तरीय ग्राम पंचायत के चुनावो में देखने को मिलेगा |  ग्राम के समस्त मतदाताओं  ने निर्णय लिया है कि |   ग्राम पंचायत भाजीपानी की उचित जांच कर दूध का दूध , पानी का पानी होना चाहिए | और  जो लोग भय का वातावरण बना रहे है  | उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही की जाय  |  नही तो ग्राम की जनता व मतदाता बंधु त्रिस्तरीय ग्राम पंचायत चुनावों का बहिष्कार करेंगे  |         

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 January 2020

 STATION CHARGE TRANSFER

थाना प्रभारी का हुआ तबादला सरकार पर खड़े हुए सवाल   मुख्यमंत्री कमलनाथ के गृह जिले छिंदवाड़ा में पदस्थ एक  प्रशस्ति पत्र से  सम्मानित  पुलिस अधिकारी का तबादला कर दिया गया  | थाना प्रभारी  का कसूर बस इतना था की वह ईमानदारी से अपना काम करते हुए  |  रेत ,जुआ सट्टा ,अवैध शराब के खिलाफ विशेष अभियान चलाकर लगतार माफियाओं के खिलाफ कार्यवाई कर रहे थे  |  ये सब  रसूखदारों और नेताओं को पसंद नहीं आया   और एक ईमानदार युवा पुलिस अधिकारी को अचानक पुलिस लाइन  भेज दिया गया  |  यह सरकार की कार्यप्रणाली पर एक बड़ा सवालिया निशान खड़ा करता है  |  छिंदवाड़ा में  जुन्नारदेव विधानसभा के  नवेगांव  पुलिस स्टेशन  के  प्रभारी विजेन्द्र सोलंकी का ताबदाला किया जाना  |  सरकार की माफियाओं के खिलाफ हो रही कार्यवाई की मंशा  पर सवालिया निशान खड़ा  करता  है  |  मुख्यमंत्री कमलनाथ के गृह जिले में पदस्थ एक ऐसे पुलिस अधिकारी की जो अपने बेहतर कार्य के लिए पुरस्कृत किया गया हो  | और जिनको  सीएम कमलनाथ ने स्वयं सम्मानित किया हो  | उसका तबादला दस महीने के कार्यकाल में क्यों किया गया यह सोचने का विषय है | थाना प्रभारी  माफियाओं के खिलाफ अभियान चलाकर लगातार कार्यवाई कर रहे थे  | जो की रसूखदारों और नेताओं को अच्छा नहीं लगा  | जिसकी कीमत उन्हें अपने स्थान्तरण से चुकानी पड़ी | बताया जा रहा है की थाना प्रभारी ने स्वयं अपना मोबाइल नंबर आम जनता को दे रखा था  और कोई भी परेशानी होने पर उन्हें कॉल किया जा सकता था |   बताया जा रहा है की थाना प्रभारी विजेन्द्र सोलंकी अपने सामाजिक कार्य के लिए भी जाने जाते है  | उन्होंने कई बार खुद  रक्तदान शिविर का आयोजन कराया  |  ताकि जरूरतमंदो को समय पर रक्त मिल सके  |  स्कूल में बच्चों को कानून और नियम की जानकारी दी  | गरीब और असमर्थ बच्चो की हमेशा सहायता की  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 January 2020

 ACCIDENT

घने कोहरे में बस से टकराया पिकअप वाहन   छिंदवाड़ा में घने कोहरे की वजह से  एक पिकअप वाहन और बस में टक्कर हो गई  | इस जबरदस्त भिड़ंत में चार लोगों की मौत हो गई और तक़रीबन दस लोग जख्मी हो गए हैं | इस हादसे में दोनों ही गाड़ियों के ड्राइवरों की गलती सामने आई है  |  मंगलवार सुबह घने कोहरे की वजह से बैतूल रोड पर एक पिकअप वाहन और बस  टकरा गए  | ये टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि इस घटना में 4 लोगों की मौत हो गई और 10 लोग घायल हो गए  |  घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया है |  पिकअप का ड्राइवर भी गंभीर रूप से घायल है  अल सुबह हुई इस घटना के बारे में वहां मौजूद लोगों का कहना  था कि कोहरा बहुत अधिक था  और दोनों ही वाहन बहुत तेज रफ्तार में थे  | जब ये आमने-सामने आए तो ड्राइवर वाहनों को संभाल नहीं पाए और टक्कर हो गई |  टक्कर की आवाज सुनकर आस-पास के लोग वहां पहुंचे और बस में से घायलों को बाहर निकाला  | लोगों ने  इसके साथ ही पुलिस और एंबुलेंस को भी सूचना दी  |  इसके बाद घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया। मौके पर पहुंचकर पुलिस ने मामले की जांच शुरू की और शवों को पोस्टमार्टम के लिए पहुंचाया  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 December 2019

 KAMALNATH

सरकार तो पागल है कुछ भी नियम निकालती है   मुख्यमंत्री कमलनाथ के छिंदवाड़ा के एक स्कूल में राष्ट्रीय ध्वज न फहराए जाने का मामला सामने आया है | इस मामले में टीचर का एक वीडियो वायरल हो रहा है |  जिसमे टीचर कह रही हैं साकार तो पागल हैं  | कुछ भी नियम निकालती है  |  मुख्यमंत्री के ग्रह जिले छिंदवाड़ा में शिक्षा विभाग के हाल बेहाल हैं  | छिंदवाड़ा से  लगभग 22 किलोमीटर की दूरी पर  ग्राम खकरा चौरई स्कूल का मामला सोशल मीडिया में चर्चा का विषय बना हुआ है |  यहाँ की शिक्षिका  का कहना है सरकार तो पागल है , कुछ भी नियम निकालती है | शाला में रोजाना राष्ट्रीय ध्वज फहराने पर टीचर का यह नजरिया है  |  दरअसल  शासकीय माध्यमिक शाला खकरा चौरई में  रोजाना राष्ट्रीय ध्वज नहीं फहराया जाता है, इस संबंध में जब वहां पदस्थ शिक्षिका  रश्मि बरकड़े से जानकारी ली गई तो उन्होंने इस नियम के लिए सरकार को ही कोसना शुरू कर दिया उनका कहना था कि सरकार तो पागल है कुछ भी नियम निकालती हैं हालांकि बाद में उन्होंने इस बात को स्वीकार भी किया कि कक्षा आठवीं से 12वीं तक शाला में राष्ट्रीय ध्वज फहराना अनिवार्य है  |  टीचर  रश्मि बरकडे का कहना है कोई झंडा  फहराने उतारने वाला नहीं है और बच्चों से ऐसा नहीं करवाया जा सकता क्योंकि दुर्घटना का डर बना रहता है  राज्य शासन निर्णय लिया कि प्रदेश के सभी माध्यमिक हाई हायर सेकेंडरी स्कूल में प्रतिदिनअनिवार्य रूप से राष्ट्रीय ध्वज फहराया जाये  | इस संबंध में स्कूल शिक्षा विभाग ने निर्देश भी जारी किए है  |  इस मामले जिला शिक्षा अधिकारी अरविंद चौरागढे से बात करने के लिये उनके दफ्तर गए तो वह ऑफिस से नदारद मिले ,दूरभाष से बात करना चाहा तो उन्होंने फोन रिसीव करना उचित नही समझा |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 December 2019

 KAMALNATH

दबंगों ने किया एक परिवार का हुक्का पानी बंद कमलनाथ के छिंदवाड़ा मॉडल का सामाजिक सच   मुख्यमंत्री कमलनाथ जी  | यह खबर आपके लिए जानना जरुरी है   | आपके छिंदवाड़ा में दबंगों ने एक परिवार का हुक्का पानी बंद कर दिया है  | पीड़ित परिवार पुलिस के चक्कर लगा रहा है लेकिन उनकी सुनने वाला कोई नहीं है  |  आप अपने छिंदवाड़ा मॉडल की चर्चा कर अपनी पीठ खुद थपथपाते नजर आते हैं  |  ये उस मॉडल की कहानी है जो बताती है कि छिंदवाड़ा में भी सबकुछ ठीक नहीं है  |  मुख्यमंत्री कमलनाथ के इलाके छिंदवाड़ा में दबंगों का कहर एक परिवार पर टूटा है  | दबंगों ने इस परिवार का हुक्का पानी बंद कर दिया है  | कमलनाथ के ग्रह विकासखंड मोहखेड मुख्यालय रहने वाले एक परिवार को समाज के   ठेकेदारों द्वारा समाज से हुक्का-पानी बंद करने को लेकर पीड़ित परिवार ने पुलिस प्रशासन से गुहार लगाईं लेकिन दबंगों के आगे सिस्टम बौना नजर आया  |  तब पीड़ित परिवार ने जान सुनवाई में अपनी पीड़ा को प्रशासन के सामने रखा  | जनसुनवाई में पीड़ित परिवार की बेटियों ने न्याय की गुहार पुलिस अधीक्षक से की  |  पीड़ित परिवार ने बताया कि मोहखेड में निवास कर रहे एक समाज के  दबंगों  ने रिशतेदारी, गांव एंव समाज में यह फरमान जारी करा दिया है कि उनके परिवार के साथ कोई किसी प्रकार का सबंध न रखे. |  इस मामले को लेकर इस परिवार ने दो बार  पुलिस अधीक्षक एंव कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा  | लेकिन अब तक उन्हें न्याय नही मिल पाया. |  पीड़ित परिवार ने  एक बार फिर पुलिस अधीक्षक के नाम ज्ञापन सौपकर कहा कि इस बार उन्हें न्याय नही मिला तो वह  कलेक्टर कार्यालय के सामने परिवार सहित भूखहड़ताल करेंगे  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  27 November 2019

 SANJNA JAIN

कमल पुत्र नकुलनाथ  के आगे नतमस्तक कलेक्टर   मध्यप्रदेश में अफसरशाही के बुरे हाल हैं  | कहीं अफसर मंत्री के पैरों में नजर आ रहे हैं तो कहीं कलेक्टर |  मुख्यमंत्री कमलनाथ के बेटे नकुल के आगे नतमस्तक नजर आ रहे हैं  | हर अफसर अपनी सैटिंग में लगा हुआ  है  | और जो अधिकारी नेताओं  को सही गलत बता दे उसे तबादले की गाज झेलना पड़ रही है  |  कमलनाथ जी आपके बदलते हुए मध्यप्रदेश में इन दिनों अजब गजब नज़ारे देखने को मिल रहे हैं |  हाल ही में आपने देखा था कि कमलनाथ के मंत्री प्रद्दुम्न सिंह तोमर आपने से आयु में तीन साल छोटे  कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया को साष्टांग दंडवत कर रहे हैं  |  इससे पता चलता है कि अपना पद बरकरार रहे उसके लिए लोग क्या क्या नहीं कर सकते  | मंत्री प्रधुम्न सिंह के बाद अब देवास नगर निगम कमिश्नर संजना जैन का पैर पड़ने का वीडियो सामने आया है  नगर निगम कमिश्नर संजना जैन का गुरुनानक जयंती के कार्यक्रम में पीडब्ल्यूडी मंत्री सज्जन वर्मा से सामना हुआ  तो देखिये कमिश्नर साहिबा  |  ने कैसे मंत्री जी के पैर पड़े | इससे जाहिर है सरकार कैसे चल रही है जहाँ अधिकारी मंत्रियों और नेताओं के सामने शरणागत और चारणागत हो रहे हैं |  ऐसा लगत है इस समय मध्यप्रदेश में कहीं नतमस्तक होकर तो कहीं चरणागत होकर काम निकलने की ट्रिक अफसर सीख गए हैं  | या फिर डर के कारण अफसरों का यह हाल  है | इस मामले में पहले मंत्री सज्जन वर्मा का पक्ष जान लेते हैं उनसे जब इस बारे में पूछा गया तो काफी देर तक वो सोच में पड़ गए और फिर उन्होंने जवाब दिया |  अधिकारी जब सार्वजानिक रूप से मंत्री और नेताओं के पैरों में नजर आएं तो विपक्ष को बैठे बिठाये एक मुद्दा मिल गया है  | सांसद महेंद्र सिंह सोलंकी ने कहा  अधिकारी  कानून नियम प्रोटोकॉल तोड़ कांग्रेस नेताओं के शरणागत हो गए हैं |   निगमायुक्त ही नहीं कलेक्टर एसपी भी हैं मंत्री के पैरों में  हैं | अधिकारियों ने अपने पद की गरिमा ही गिरा दी है  |  मध्यप्रदेश में असफरशाही के कारण लोकतंत्र भी शर्मा रहा है  |  ऐसा लगता है इन अधिकारीयों  का सोचना है शरण में नहीं  जाएंगे  तो पद से हटा दिए जाएंगे  |  अब इस तस्वीर को देखिये |  ये तस्वीर मध्यप्रदेश की नौकरशाही की झुकी कमर का हाल बता रही है  |  छिंदवाड़ा कलेक्टर जो खुद एक  सीनियर IAS हैं  मुख्यमंत्री कमलनाथ के उद्योगपति संसद पुत्र नकुल नाथ के आगे झुके जा रहे हैं |  सरकार के आगे नतमस्तक इन अधिकारीयों के कारण जहाँ मध्यप्रदेश जग हंसाई का पात्र बनता है  | वहीँ इस पर जमकर राजनीति भी होती है |       

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 November 2019

 ADM , ADESH

कोई भी सीधे मिल सकता है इस अधिकारी से   छिंदवाड़ा में एक अधिकारी ऐसा भी है जिससे कोई भी सीधे बिना अनुमति के मिल सकता है  | राजेश शाही नाम के अपर कलेक्टर ऐसे पहले अधिकारी हैं  जिन्होंने अपने दफ्तर के बाहर लिख रखा है | हमारी उपलब्धता आपके ही लिए है और मिलने के लिए किसी अनुमति की आवश्यकता नहीं है  ...   मध्यप्रदेश में अफसरों से मिलना और अपने जायज काम  को करवाना भी एक टेढ़ा काम माना जाता है |  अधिकाँश अफसर तो लोगों से मिलने से ही कतराते हैं  | आम लोग अफसरान से मिलने तक के लिए नेताओं और बिचौलियों की मदद लेते हैं  |  ऐसे में छिंदवाड़ा जिले में अपर कलेक्टर राजेश शाही के केबिन के बाहर लगा बोर्ड चर्चा का विषय बना हुआ है |  बोर्ड पर लिखा है कि हमारी उपलब्धता आपके लिए ही है, इसलिए मिलने के लिए किसी की भी अनुमति लेने की जरुरत नहीं है. | आमतौर पर देखा जाता है कि सरकारी अफसर से मिलने के लिए समयसीमा का बोर्ड लगा रहता है |  लेकिन  अपर कलेक्टर राजेश शाही और अफसरों से बिलकुल अलग हैं |   ये बोर्ड अपर कलेक्टर राजेश शाही ने अपनी समस्या लेकर आने वाले आम लोगों के लिए लगाया है | राजेश शाही हमेशा ही आम जनता के कामों को तरजीह देते हैं, इसके पहले भी वे जमीन पर बैठकर लोगों की समस्या सुनते नजर आए थे और अब फिर से अपने केबिन के बाहर इस तरह का बोर्ड लगाने के बाद काफी चर्चा में है |     

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 November 2019

 KAMALNATH

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ली  सेल्फी पॉइंट पर सेल्फी   मुख्यमंत्री कमलनाथ सोमवार को अलग ही अंदाज में नजर आए  |  वो सुबह अचानक छिंदवाड़ा में बनाए गए सेल्फी प्वाइंट पर पहुंचे और सेल्फी ली  | इस दौरान प्रभारी मंत्री सुखदेव पांसे भी उनके साथ थे  |  एक कार्यक्रम में शामिल होने के बाद वो अचानक नगर निगम द्वारा बनाए गए सेल्फी प्वाइंट पर पहुंचे और अपनी सेल्फी ली  |  सेल्फी लेना भी एक आर्ट है  |  छिंदवाड़ा में मुख्यमंत्री कमलनाथ सेल्फी पॉइंट पर पहुंचे और और अपनी सेल्फी ली  |  जहां सीएम कमलनाथ खुद को कैमरे में कैद कर रहे थे |   वहीं मौके पर खड़े कुछ लोगों ने ऐसा करते हुए उनकी तस्वीरें खींच ली  |  छिंदवाड़ा में नगर निगम कमिश्नर इच्छित गढ़पाले की कोशिशों के चलते ये सेल्फी प्वाइंट बनाया गया है |   जहां लोग आकर सेल्फी ले रहे हैं  | मुख्यमंत्री भी आज यहाँ खुद को कैमरे में कैद करने से रोक नहीं पाए  | इससे पहले रविवार को मुख्यमंत्री कमलनाथ जिला कांग्रेस की संगठनात्मक बैठक में पहुंचे थे |  जहां उन्होंने साफ किया कि, "अब तक प्रदेश में 21 लाख किसानों का कर्जा माफ हो चुका है  | अकेले छिंदवाड़ा जिले में ही एक लाख से ज्यादा किसानों को कर्जमाफी का फायदा मिला  | उन्होंने फिर से दोहराया कि प्रदेश के एक-एक किसान का कर्जा माफ होगा  |  वहीं उन्होंने बढ़ती बेरोजगारी को लेकर भी चिंता जताई  |                 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 October 2019

 KAMALNATH

मेग्निफिसेंट मध्यप्रदेश दिखावे के लिए नहीं   मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि देश में मंदी के दौर का केंद्र सरकार को अनुभव करना होगा तभी वह इस मंदी से देश को बाहर निकाल पाएगी |  मुख्यमंत्री कमलनाथ ने छिंदवाड़ा में केंद्र की मोदी सरकार से कहा की उसे मंदी का अनुभव करना होगा तभी वह मंदी से निपट पाएगी  | इंदौर में होने वाले औद्योगिक घराने के सम्मेलन मैग्निफिसेंट मध्यप्रदेश को लेकर   मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि यह पिछली सरकारों के द्वारा दिखावे के लिए किए गए  आयोजनों जैसा नहीं है |   यह सम्मेलन मध्यप्रदेश में निवेशकों के लिए है जो यहां पर रोजगार के अवसर पैदा कर सकें   |  साथ ही मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि झाबुआ उपचुनाव में कांग्रेस की जीत निश्चित है | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 October 2019

भारिया

भारिया परिवारों के पक्के आवास बनेंगे और भारिया भाषा शिक्षक नियुक्त किये जायेंगे  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश के सभी भारिया परिवारों को बिना जमीन के नहीं रहने दिया जायेगा।  भारिया परिवार बरसों से जिस जमीन पर काबिज़ है, उन्हें उसका मालिकाना हक दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि वन भूमि पर वर्षों से काबिज भारिया परिवार को भी नहीं हटाया जायेगा। ऐसे परिवारों को भूमि का  पट्टा देने के लिये विशेष अभियान चलाया जायेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज छिन्दवाड़ा जिले के पातालकोट क्षेत्र के ग्राम रातेड़ में भारिया महासम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। अध्यक्षता अनुसूचित जाति कल्याण और जनजातीय कार्य राज्य मंत्री श्री लाल सिंह आर्य ने की।  मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि वन अधिकार अधिनियम में जिन भारिया परिवारों को भूमि आवंटित की गई है, उनके खेतों में कुओं का निर्माण कराया जायेगा। साथ ही परिस्थिति अनुसार मोटर या डीजल पम्प उपलब्ध करवाया जायेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी भारिया परिवारों के आगामी 2 वर्षों में पक्के मकान बनाये जायेंगे। भारिया भाषा को संरक्षित करने के लिये 18 भारिया भाषायी शिक्षक नियुक्त किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि भारिया संस्कृति को अक्षुण्ण रखने के लिये छिन्दवाड़ा में भारिया सांस्कृतिक केन्द्र स्थापित किया जायेगा। मुख्यमंत्री ने भारिया समाज के लोगों से कहा कि वे अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा दिलाकर उन्हें आगे बढ़ने के लिये प्रेरित और प्रोत्साहित करें। उन्होंने कहा कि आज का समय कम्प्यूटर का है और कम्प्यूटर रोजगार का जरिया है, इसलिये बच्चों को कम्प्यूटर में प्रशिक्षित किये जाने के लिये छिन्दवाडा में एक कम्प्यूटर प्रशिक्षण केन्द्र खोला जायेगा। आई.टी.आई. में भी भारिया बच्चों को विभिन्न व्यवसाय का प्रशिक्षण देकर उनके कौशल को बढ़ाया जायेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि यह महासम्मेलन भारिया जनजाति की जिदंगी बदलने का प्रयास है। उन्होंने कहा कि सभी भारिया बस्तियों में दीपावली तक बिजली पहुँचा दी जायेगी। उन्होंने   भारिया बच्चों के लिये एकलव्य आवासीय विद्यालय खोलने की घोषणा भी की। उन्होंने कहा कि भारिया परिवारों के बच्चों को पहली से लेकर पी.एच.डी. तक निःशुल्क शिक्षा दी जायेगी। उन्होंने भारिया युवाओं से कहा कि वे अपनी क्षमताओं का प्रकटीकरण करें। मुख्यमंत्री ने कहा कि भारिया आदिवासियों की एक स्वस्थ परम्परा है जिसे अक्षुण्ण रखने का प्रयास राज्य शासन द्वारा किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि 12वीं कक्षा तक पढ़ने वाली भारिया बालिकाओं को एन.एम.ए. का प्रशिक्षण देकर उन्हें स्वास्थ्य सेवा के कार्य में लगाया जायेगा। भारिया बहुल क्षेत्र में भारिया आदिवासियों का स्वास्थ्य परीक्षण किया जायेगा तथा गंभीर रोग से पीड़ित होने पर निःशुल्क उपचार किया जायेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि मध्यप्रदेश में अब असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों का पंजीयन कर उन्हें विभिन्न सुविधाएँ उपलब्ध कराई जायेगी। उन्होंने कहा कि अचार, चिरौंजी और महुआ खरीदी के लिये लघु वनोपज खरीदी केन्द्र खोले जायेंगे। महुआ 30 रूपये एवं अचार गुठली 150 रूपये प्रति किलो की दर पर खरीदी जायेगी। उन्होंने कहा कि पातालकोट क्षेत्र की भारिया बहनों के बैंक खाते में प्रतिमाह एक हजार रूपये जमा किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि पातालकोट क्षेत्र की सभी बस्तियों में नल-जल योजना की व्यवस्था की जायेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने 36 करोड 98 लाख 35 हजार रूपये के कार्यों का लोकार्पण और भूमिपूजन कर 7 भारिया युवाओं को पुलिस में आरक्षक के पद पर सीधी भर्ती के नियुक्ति पत्र प्रदान किये। उन्होंने लाडली लक्ष्मी योजना के प्रमाण-पत्र के साथ ही उज्जवला गैस योजना के कनेक्शन भी वितरित किये। मुख्यमंत्री ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाले नर्तक दल को 25 हजार की नगद प्रोत्साहन राशि भी प्रदान की। सम्मेलन में भारिया विकास प्राधिकरण की अध्यक्ष श्रीमती उर्मिला भारती, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती कांता ठाकुर, विधायक सर्वश्री नत्थनशाह कवरेती, चौधरी चन्द्रभान सिंह, पं.रमेश दुबे एवं नानाभाऊ मोहोड, नगर पंचायत अध्यक्ष श्री नरेन्द्र परमार, श्री उत्तम ठाकुर और श्री रमेश पोफली भी उपस्थित थे।    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 April 2018

बीजेपी नेता की गोली मारकर हत्या

छिंदवाड़ा जिला कोर्ट परिसर में पेशी पर आए भाजपा नेता मोहम्मद इखलाक की प्रशांत साहू और उसके तीन साथियों ने गोली मारकर हत्या कर दी। मामला गैंगवार का बताया जा रहा है। घटना के बाद शहर में तनावपूर्ण स्थिति बनने के बाद जगह-जगह पुलिस बल तैनात किया गया है। जानकारी के मुताबिक भाजपा के पूर्व अल्पसंख्यक मोर्चा अध्यक्ष मोहम्मद इखलाक पर शिवसेना नेता नरेंद्र पटेल पर प्राणघातक हमला करने का आरोप लगा था। इसी मामले में पुलिस उसे पेशी के लिए दोपहर एक बजे कोर्ट लेकर पहुंची। जैसे ही वे पीछे के गेट से अंदर घुसे इस दौरान वहां मौजूद प्रशांत साहू और उसके साथियों ने इखलाक पर तीन गोलियां चलाई, जिससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई। कोर्ट परिसर में हुई इस घटना के बाद अफरा-तफरी का माहौल हो गया। हत्या की खबर जैसे ही शहर में फैली माहौल तनावपूर्ण हो गया। इखलाक के शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल लाया गया है, जिसके बाहर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात है। उधर एहतियातन शहर में दुकानें बंद करवा दी गई हैं। पुलिस अगर थोड़ी सी सतर्कता बरतती तो इस घटना को रोका जा सकता है। जब इखलाक पर हमला हुआ तो गोली चलाने वाला कोर्ट परिसर के अंदर उसके पास खड़ा था। इससे सुरक्षा पर सवाल खड़े होने लगे हैं, आखिर कोर्ट परिसर में हथियार लेकर कोई कैसे घुस गया।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 August 2017

bank amit syahi

  राज्य निर्वाचन आयुक्त  आर. परशुराम ने जानकारी दी है कि विभिन्न व्यावसायिक बैंकों द्वारा माँग के अनुसार अमिट स्याही उपलब्ध करवायी गयी है। श्री परशुराम ने जिला अनूपपुर, शहडोल, उमरिया, बुरहानपुर एवं कटनी को छोड़कर शेष सभी जिला कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारियों को बैंकों को माँग अनुसार अमिट स्याही उपलब्ध करवाने के निर्देश दिये हैं। अमिट स्याही का मूल्य 120 रूपये प्रति बाटल है।      

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 November 2016

Video

Page Views

  • Last day : 3425
  • Last 7 days : 23380
  • Last 30 days : 91641
x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved ©2020 MadhyaBharat News.