Since: 23-09-2009

  Latest News :
बाबा साहब के सपनों को साकार करने वाली सरकार चुनें : मायावती.   भाजपा का संकल्प पत्र देशवासियों की एंबीशन पूरा करने का मिशन- प्रधानमंत्री.   फिल्म अभिनेता सलमान खान के घर के बाहर फायरिंग.   इजरायल-ईरान संघर्ष के हालात पर भारत की दोनों पक्षों से संयम बरतने की अपील.   प्रधानमंत्री मोदी की गेमिंग क्षमता से प्रभावित हुए युवा गेमर्स ने उन्हें ‘नमो ओपी’ दिया नाम.   अगर नरेन्द्र मोदी प्रधानमंत्री नहीं होते तो राम मंदिर का निर्माण नहीं हो पाता : राज ठाकरे.   प्रदेश में सबसे ज्यादा अपराध आदिवासी वर्ग पर हो रहे हैं: जीतू पटवारी.   44 घंटे तक रेस्क्यू के बाद भी बोरवेल में गिरे मासूम की नहीं बच पाई जान.   भाजपा ने बाबा साहब के योगदान को नई पहचान दीः नरेन्द्र मोदी.   जिन लोगों ने बाबा साहब को संसद जाने से रोका वही उनके नाम पर वोट मांग रहे : मुख्यमंत्री डॉ. यादव.   रीवा में बोरवेल में गिरे मासूम को निकालने के लिए रेस्क्यू जारी.   मां के साथ खेत पर गई दो बहनें तालाब में डूबी.   सड़क दुर्घटना में दो सगे भाइयों समेत तीन युवकों की मौत.   मैनपाट में घर में लगी आग की चपेट में आकर तीन बच्चे जिंदा जले.   बसपा ने छग की तीन सीटों के लिए की उम्मीदवारों की घोषणा.   सरोना ट्रेचिंग ग्राउंड को 5 दिन के भीतर साफ करने का अल्टीमेटम.   कोरबा में स्कूल वैन दुर्घटनाग्रस्त सात घायल.   कांग्रेस उम्मीदवार कवासी लखमा पर तीन थानों में दर्ज हुई एफआईआर.  

जबलपुर News


jabalpur, High Court ,defamation case

जबलपुर। मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय ने कांग्रेस नेता विवेक तन्खा के मानहानि मामले में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा और पूर्व मंत्री भूपेंद्र सिंह को बड़ी राहत दी है। अंडरटेकिंग देने के लिए व्यक्तिगत रूप से उपस्थित होने के आदेश का पालन नहीं करने पर उनके खिलाफ दो दिन पहले जमानती वारंट जारी हुए थे। उच्च न्यायालय की एकलपीठ ने गुरुवार को भाजपा के तीनों वरिष्ठ नेताओं के खिलाफ जमानती वारंट जारी करने के आदेश पर रोक लगा दी है।     न्यायमूर्ति संजय द्विवेदी की पीठ ने कहा कि शिवराज और वीडी शर्मा इस समय लोकसभा चुनावों में प्रत्याशी हैं। इस आधार पर उनके खिलाफ जमानती वारंट जारी करने के दो अप्रैल के फैसले पर रोक लगाई जाती है। इस संबंध में अगली सुनवाई 23 अप्रैल को होगी। तब तक भाजपा के तीनों नेताओं के खिलाफ कोई वारंट जारी नहीं होगा।     यह है मामला गौरतलब है कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा ने पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और पूर्व मंत्री भूपेन्द्र सिंह के खिलाफ 10 करोड़ की मानहानि का परिवाद दायर किया था। परिवाद में कहा गया है कि सुप्रीम कोर्ट में ओबीसी आरक्षण पर उन्होंने कोई बात नहीं कही थी। उन्होंने मध्य प्रदेश में पंचायत और निकाय चुनाव मामले में परिसीमन और रोटेशन की मांग करते हुए सुप्रीम कोर्ट में पैरवी की थी। सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव में ओबीसी आरक्षण पर रोक लगा दी तो भाजपा नेताओं ने साजिश करते हुए इसे गलत ढंग से पेश किया। भाजपा नेताओं ने गलत बयान देकर ओबीसी आरक्षण पर रोक का ठीकरा उनके सिर फोड़ दिया। इससे उनकी छवि धूमिल करके आपराधिक मानहानि की है।     इस मामले में विशेष न्यायिक न्यायाधीश (एमपी/एमएलए कोर्ट) विश्वेश्वरी मिश्रा ने 20 जनवरी को तीनों के विरुद्ध मानहानि का प्रकरण दर्ज करने के निर्देश दिए थे। कोर्ट ने तीनों नेताओं को 22 मार्च को मामले की सुनवाई में व्यक्तिगत रूप से उपस्थित के निर्देश दिए थे। निर्धारित तारीख को तीनों नेताओं की तरफ से गैर-हाजिरी माफी आवेदन प्रस्तुत किया था। स्वयं को लोकसभा चुनाव में व्यस्त बताते हुए आग्रह किया था कि उन्हें सात जून तक का समय प्रदान किया जाए। न्यायालय ने आवेदन स्वीकार किया था। साथ ही कहा था कि तीनों नेता दो अप्रैल को स्वयं उपस्थित होकर इस संबंध में अंडरटेकिंग प्रस्तुत करें, लेकिन चुनावी व्यस्तता के कारण दो अप्रैल को भी तीनों नेता कोर्ट में उपस्थित नहीं हुए। विशेष न्यायिक न्यायाधीश (एमपी/एमएलए कोर्ट) विश्वेश्वरी मिश्रा की कोर्ट ने इसे गंभीरता से लिया और उनके खिलाफ जमानती वारंट जारी करते हुए सात मई को व्यक्तिगत रूप से उपस्थित होने का आदेश जारी किया था।     शिवराज सिंह चौहान विदिशा से और विष्णुदत्त शर्मा खजुराहो से भाजपा के प्रत्याशी हैं। विदिशा में तो सात मई को ही मतदान होना है। इस लिहाज से दोनों का व्यक्तिगत तौर पर उपस्थित होकर अंडरटेकिंग देना थोड़ा मुश्किल है। तीनों नेताओं ने हाईकोर्ट से आग्रह किया था कि प्रकरण की सुनवाई के दौरान उन्हें व्यक्तिगत उपस्थिति से छूट प्रदान की जाए। गुरुवार को जस्टिस संजय द्विवेदी की एकलपीठ में सुनवाई के दौरान वकीलों की यह दलील कोर्ट ने स्वीकार की और फिलहाल वारंट जारी करने पर रोक लगाई है। याचिका की अगली सुनवाई 23 अप्रैल को निर्धारित है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 April 2024

jabalpur,  Collector

जबलपुर। स्कूलों द्वारा अभिभावकों पर बुक्स एवं स्कूल ड्रेस के साथ अतिरिक्त फीस बढ़ाने जैसे मामलों की शिकायत मिलने पर जबलपुर कलेक्टर दीपक सक्सेना ने 18 स्कूलों के खिलाफ त्वरित एक्शन लिया है। स्टैम्प फील्ड स्कूल विजय नगर के खिलाफ नियम विरुद्ध तरीके से 22% फीस बढ़ाने की शिकायत मिलने पर संज्ञान लिया । शिकायत सही पाए जाने पर 2 लाख रु तक जुर्माने के साथ मान्यता रद्द करने की कारवाई सम्भव हो सकती है ।   प्राप्त शिकायत पर जांच के लिए कलेक्टर द्वारा गठित जांच कमेटी के समक्ष खुली सुनवाई की जाएगी। जिसमें अभिभावकों को गोपनीय रूप से अपना पक्ष रखने का मौका दिया जाएगा। जिन 18 स्कूलों के खिलाफ विधि कार्रवाई प्रारंभ की जा रही है उनके नाम क्रमशः चैतन्य टेक्नो स्कूल, सेंट अलायसिस सीनियर सेकेंडरी स्कूल पोली पाथर, स्टेमफील्ड फील्ड इंटरनेशनल स्कूल विजय नगर, रेयान स्कूल,आर्केड इंटरनेशनल स्कूल भेड़ाघाट, केयर पब्लिक स्कूल, माउंट लिटेरा स्कूल,सेंट जोसेफ कॉन्वेंट सदर, विजडम वैली स्कूल, सेंट फ्रांसिस स्कूल खमरिया, क्राइस्ट चर्च को एड स्कूल सालीवाडा,जुपिटर स्कूल, आइडियल स्कूल, क्राइस्ट चर्च डायसियन स्कूल घमापुर क्षितिज मॉडल स्कूल धनवंतरी नगर, नचिकेता स्कूल, कमला देवी स्कूल करौंदी,लिटिल हार्ट स्कूल भेड़ाघाट चौराहा उपरोक्त स्कूलों पर विधिक कार्यवाही प्रारंभ हो चुकी है। जबलपुर कलेक्टर के इस त्वरित एक्शन के बाद आम जनता में उनकी कार्यशैली की वाहवाही हो रही है एवं मध्यम वर्ग से लेकर गरीब अभिभावक तक राहत महसूस कर रहे हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 April 2024

jabalpur, Bail warrant issued , MP MLA court

जबलपुर। मध्य प्रदेश के एमपी एमएलए कोर्ट ने पूर्व सीएम शिवराज सिंह, पूर्व मंत्री भूपेंद्रसिंह एवं वीडी शर्मा के खिलाफ अदालत में हाजिर न होने पर 500 रु का जमानती वारंट जारी किया है। कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य विवेक तन्खा द्वारा लगाए 10 करोड़ रुपये के मानहानि केस में तीनों नेताओं को फिलहाल राहत नहीं मिली है। तीनों की ओर से 7 जून को पेश होने के लिए दिए गए आवेदन को भी कोर्ट ने निरस्त कर दिया। कोर्ट ने अब तीनों नेताओं को 7 मई को व्यक्तिगत उपस्थिति का आदेश दिए हैं।   विशेष न्यायाधीश विश्वेश्वरी मिश्रा ने यह आदेश जारी किया। वहीं कोर्ट ने कहा कि 'बीजेपी के सभी वरिष्ठ नेता कोर्ट के आदेशों का अनुपालन सुनिश्चित कर आमजन में अनुकरणीय आचरण पेश करें। व्यक्तिगत व्यस्तता से कोर्ट के आदेशों का पालन न करने से आम जन के मानसिक पटल पर प्रभाव पड़ेगा। शिवराज सिंह चौहान,वीडी शर्मा और भूपेन्द्र सिंह की तरफ से पेश वकील ने एक आवेदन कोर्ट में प्रस्तुत किया, जिसमें उन्होंने लिखा कि वह बीजेपी के वरिष्ठ नेता हैं और इस समय चुनाव चल रहे हैं। इसलिए व्यस्तता के चलते खुद कोर्ट में उपस्थित होने में असमर्थ हैं। कोर्ट ने आवेदन पत्र पर नाराजगी जताई और इसे अस्वीकार कर दिया। उल्लेखनीय है कि सन 2023 में मध्य प्रदेश के पंचायत चुनाव के समय वरिष्ठ अधिवक्ता और राज्यसभा सांसद विवेक तनखा ने तत्कालीन सीएम शिवराज सिंह प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और पूर्व मंत्री भूपेंद्र सिंह के खिलाफ 10 करोड रुपए का मानहानि का परिवाद दायर किया था। सुप्रीम कोर्ट ने रोटेशन प्रक्रिया का पालन न होने पर पंचायत चुनाव की प्रक्रिया रद्द कर दी थी एवं बिना ओबीसी आरक्षण के ही चुनाव करने के निर्देश दिए थे। जिस पर शिवराज सिंह चौहान, वीडी शर्मा एवं भूपेंद्र सिंह ने विवेक तनखा सहित कमलनाथ को लेकर कई बयान दिए थे। जिसको लेकर विवेक तनखा ने आपत्ति दर्ज कराई थी एवं परिवार दायर किया था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 April 2024

jabalpur, PM Modi , JP Nadda

जबलपुर। जबलपुर प्रवास पर आए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने प्रबुद्धजनों के सम्मेलन को संबोधित किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि भाजपा के कार्य के कारण आज विश्व में देश का नाम रोशन हुआ है। देश में जातिवाद खत्म हुआ है और विकासवाद बढ़ा है। हम डिवाइड नहीं डवलपमेंट की राजनीति करते हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने देश में परिवारवाद की राजनीति को खत्म किया है। हमारी राजनीति सबको साथ लेकर चलने की है सबका साथ सबका विकास। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री कहते हैं कि भ्रष्टाचार से समझौता नहीं करेंगे जड़ मूल से उसको खत्म कर देंगे परंतु यह आईएनडीआई अलायंस भ्रष्टाचारियों को बचाने वालों का जमावड़ा बन चुका है। यह अलायंस परिवार को बचाने का प्रयास कर रहा है। उल्लेखनीय है कि जेपी नड्डा इस समय मध्यप्रदेश के दौरे पर हैं। वह मंगलवार को जबलपुर पहुंचे एवं मानस भवन के मंच पर प्रबुद्धजनों के सम्मेलन को संबोधित किया। इस अवसर पर मंत्री राकेश सिंह,आशीष दुबे, कविता पाटीदार, सांसद सुमित्रा बाल्मीकि, महापौर जगत बहादुर सिंह अन्नू मंच पर उपस्थित थे। नड्डा शहडोल से लौटकर रात्रि विश्राम जबलपुर में ही करेंगे एवं कल उज्जैन के लिए रवाना होंगे जहां महाकाल मंदिर में दर्शन करेंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 April 2024

jabalpur, Former CM Shivraj ,MP High Court

जबलपुर। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एवं भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा, एमपी- एमएलए कोर्ट जबलपुर में लंबित 10 करोड़ की मानहानि के मामले में सुनवाई के एक दिन पहले हाईकोर्ट पहुंचे। उन्होंने एमपी- एमएलए कोर्ट में विचाराधीन प्रकरण को खारिज किए जाने की मांग वाली याचिका दाखिल की है। हाईकोर्ट में वरिष्ठ अधिवक्ता आरएन सिंह ने पक्ष रखा। वहीं विवेक तन्खा की ओर से उनके अधिवक्ताओं ने भी अपनी प्राथमिक आपत्ति दर्ज कराई। उनका कहना था कि पूर्व मुख्यमंत्री द्वारा दाखिल की गई याचिका की प्रति उन्हें प्राप्त नहीं हुई है। सुनवाई के उपरांत जस्टिस संजय द्विवेदी की कोर्ट ने याचिका पर फैसला सुरक्षित कर दिया है। उल्लेखनीय है कि 2021 में सुप्रीम कोर्ट ने पंचायत चुनाव में 27 प्रतिशत ओबीसी आरक्षण पर रोक लगा दी थी। इस दौरान विवेक तंखा ने याचिकाकर्ताओ की ओर से पंचायत और निकाय चुनाव में रोटेशन और परिसीमन को लेकर पैरवी की थी। उस वक्त बीजेपी नेताओं की तमाम बयानबाजी के बीच राज्यसभा सांसद विवेक तंखा ने भी अपनी सफाई देते हुए बयान जारी किया था। सुप्रीम कोर्ट द्वारा पंचायत चुनाव में अन्य पिछड़ा वर्ग के 27 प्रतिशत आरक्षण को रद्द किए जाने के आदेश के बाद बीजेपी नेताओं ने अधिवक्ता एवं कांग्रेस नेता विवेक तंखा को ओबीसी विरोधी नेता बताया था। इसके बाद विवेक तंखा द्वारा मध्य प्रदेश के तत्कालीन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और तत्कालीन मंत्री भूपेंद्र सिंह को नोटिस भेजकर उनकी मानहानि करने का आरोप लगाया और साथ ही उनसे माफी मांगने को कहा। कानूनी नोटिस के बावजूद जब बीजेपी के तीनों नेताओं ने माफी नहीं मांगी तो उनके खिलाफ 10 करोड़ की मानहानि का मुकदमा दायर किया गया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 March 2024

jabalpur, Prospective candidate ,digital payment

जबलपुर। लोकसभा प्रत्याशी के नामांकन फार्म लेने के लिए पहुंचे युवक ने जब डिजिटल पेमेंट करना चाहा तो निर्वाचन के कार्य में लगे कर्मचारियों ने ऑनलाइन पेमेंट लेने से मना कर दिया। इसके बाद भावी प्रत्याशी ने अपने साथ लाये हुए बैग में भरे हुए 25 हजार के सिक्के निर्वाचन कर्मचारियों को दे दिए। इतने सारे सिक्के देखकर कर्मचारियों में असमंजस की स्थिति पैदा हो गई। परंतु कोई विकल्प न देख कर्मचारियों को वह सिक्के गिनने के लिए मजबूर होना पड़ा। इस पूरे चिल्लर की गिनती करने में आधे घंटे से भी अधिक समय लगा। यादव कॉलोनी निवासी विनय चक्रवर्ती बुधवार को सबसे पहले प्रत्याशी का फॉर्म लेने पहुंचे। भावी प्रत्याशी अपने साथ 10 हजार रु नगद लेकर पहुंचे थे इसके अलावा बचे हुए भुगतान के लिए उन्होंने डिजिटल पेमेंट करने की बात कही। जिस पर कर्मचारियों का कहना था कि यह सुविधा उपलब्ध नहीं है, नामांकन फार्म नगद ही दिया जाएगा। इसके बाद भावी प्रत्याशी का फॉर्म लेने पहुंचे विनय सीधे ने अपनी गाड़ी से 25 हजार के सिक्के ले जाकर कर्मचारी की टेबल पर रख दिए। विनय चक्रवर्ती पेशे से बिल्डर हैं। उनका कहना है कि सालों से देश में भाजपा कांग्रेस की सरकार राज कर रही है जिसको लेकर विकास अभी भी अछूता है। गरीबों को मदद मिले इसके लिए वह लोकसभा चुनाव लड़ने का मन बना रहे हैं। उनका कहना है कि साथियों ने मिलकर मुझे यह पैसा एकत्रित कर दिया है। बैग में इतनी सारी चिल्लर देखकर कर्मचारियों ने उसको गिरना शुरू किया अंत में विनय चक्रवर्ती से कहा गया कि इसमें 350 रुपए कम है। लेकिन विनय और उनके साथियों ने पूरे रुपए गिने। राशि पूरी होने के बाद विनय चक्रवर्ती ने प्रत्याशी के लिए नामांकन फार्म ले लिया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 March 2024

jabalpur, Minor daughter ,railway officer

जबलपुर । रेलवे की मिलेनियम कॉलोनी में रेलवे अधिकारी और उसके बेटे की हत्या के मामले में एक नया जांच एंगल पुलिस को मिला है। संदेह व्यक्त किया जा रहा था कि हत्यारे के साथ बेटी मिली हुई है। इसकी पुष्टि पुलिस को उसे समय हो गई जब सीसीटीवी में एक्टिवा गाड़ी में बैठ हत्यारे के साथ मृतक की बेटी जाती हुई देखी गयी। घटना की विस्तृत जांच के लिए जब पुलिस ने आसपास के सीसीटीवी कैमरे खंगाले तो पुलिस को बहुत से सुराग हाथ आए। हत्यारे के साथ बेटी को देख पुलिस के कान खड़े हो गए। पिता और पुत्र की हत्या करने के बाद फरार जोड़े ने पुलिस को भ्रमित करने के लिए मदन महल रेलवे स्टेशन के बाहर अपनी एक्टिवा गाड़ी खड़ी कर दी और वहां से ऑटो में बैठ दीनदयाल स्थित अंतर्राज्यीय बस स्टैंड पहुंचे। जहां से एक बस में बैठकर फरार हो गए। संभावना ऐसी व्यक्त की जा रही है कि जिस बस में यह जोड़ा बैठा हुआ है वह सागर दमोह की तरफ गई है। पुलिस ने जांच की दिशा में अपनी कार्यवाही प्रारंभ कर दी है। पुलिस पहले मदन महल स्टेशन उसके बाद आईएसबीटी पहुंची। जहां लोगों से पूछताछ की । उल्लेखनीय है कि रेलवे में अधिकारी राजकुमार विश्वकर्मा मिलेनियम कॉलोनी में अपने 8 साल के बेटे तनिष्क और 16 वर्षीय नाबालिक बेटी के साथ रहते थे। शुक्रवार को सुबह बेटी ने होशंगाबाद में रहने वाले अपने चाचा को व्हाट्सएप पर एक वॉइस मैसेज के माध्यम से बताया था कि पड़ोस में रहने वाले मुकुल सिंह ने उसके पिता व भाई की हत्या कर दी है। दोहरी हत्या को अंजाम देने वाला आरोपी मुकुल सिंह जबलपुर रेल मंडल ने पदस्थ सेफ्टी ओएस राजपाल सिंह का बेटा है। पुलिस ने मुकुल सिंह के बड़े भाई को पकड़ा है जिससे विस्तृत पूछताछ की जा रही है। पुलिस की जांच में यह मामला सामने आया की सीसीटीवी में नाबालिक बेटी हत्यारे के साथ घूमते हुए देखी गयी। वह पहले अपने क्वार्टर से दूध लेने के लिए बाहर निकली। इसके बाद दोपहर 12:30 हत्या के आरोपित के साथ एक्टिवा में बैठकर बाहर चली गई। पुलिस को ऐसा अनुमान है की रेलवे अधिकारी राजकुमार एवं उसके बेटे की हत्या आधी रात के बाद सोते समय की गई है। वहीं पुलिस अधीक्षक आदित्य प्रताप सिंह का कहना है कि इस दौहरे हत्याकांड में हत्या का आरोपी मुकुल एवं नाबालिक बेटी दोनों गायब है। पुलिस की कई टीम उनकी तलाश में जुटी हुई है फिलहाल मृतक का घर सील कर दिया गया है। बहरहाल जो भी हो परंतु इस सनसनीखेज हत्याकांड ने लोगों को विचलित कर दिया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 March 2024

jabalpur, Eight students, coming late

जबलपुर। मप्र में इन दिनों माध्यमिक शिक्षा मंडल की बोर्ड परीक्षाएं चल रही हैं। शुक्रवार को कक्षा दसवीं की परीक्षा का संस्कृत विषय का पेपर हुआ। इस दौरान जबलपुर के एक स्कूल में दस मिनट देरी से आने पर 10वीं के आठ विद्यार्थियों को परीक्षा में नहीं बैठने दिया गया। इसकी जानकारी लगते ही परिजन स्कूल पहुंच गए और जमकर हंगामा किया। मामले की जानकारी लगते ही मौके पर पुलिस भी पहुंच गई। स्कूल प्रबंधन का कहना है कि शासन के नियम अनुसार सुबह 8:45 बजे के बाद स्कूल के गेट नहीं खोले जाने थे, जबकि परिजनों ने आरोप लगाया कि स्कूल प्रबंधन ने सुबह 8:30 बजे ही गेट बंद कर दिए थे।     जानकारी के अनुसार, शुक्रवार को सुबह जबलपुर के रांझी क्षेत्र में स्थित खालसा स्कूल में जब कक्षा दसवीं के छात्र संस्कृत का पेपर देने पहुंचे तो उनमें से आठ छात्रों को परीक्षा प्रबंधकों द्वारा पेपर देने नहीं दिया गया। परीक्षा नहीं देने की बात सुनकर एक छात्रा वहीं पर बेहोश हो गई। इसकी जानकारी लगते ही छात्रों के परिजन भी स्कूल पहुंच गए और हंगामा मचाना शुरू कर दिया। इस संबंध में एक परिजन ने बताया कि उनका बेटा सुबह ठीक 8 बजकर 35 मिनट पर खालसा स्कूल पेपर देने के लिए पहुंच गया था। वह जैसे ही स्कूल के गेट पर पहुंचा तो उसे गेट बंद पाया मिला। इसी प्रकार कुल आठ छात्र परीक्षा देने अंदर नहीं जा पाए। स्कूल प्रशासन ने सुबह 8 बजकर 30 मिनिट पर ही गेट बंद कर दिए, जबकि गेट बंद करने का समय 8 बजकर 45 मिनिट है।     हंगामे की जानकारी लगते ही रांझी थाने की पुलिस भी स्कूल पहुंच गई और उचित कार्रवाई का आश्वासन देकर परिजनों को शांत कराया। इस संबंध में स्कूल प्रशासन का कहना है कि उन्होंने शासन के निर्देशानुसार तय समय पर ही स्कूल का गेट बंद किया था। खालसा स्कूल रांझी के सहसचिव दमनीत सिंह प्रिंस भसीन ने बताया कि जैसे ही हमें इस बात की जानकारी मिली तुरंत स्कूल पहुंचे। केंद्राध्यक्ष दीप्ति शर्मा ने कहा कि विद्यार्थी आठ बजकर 57 मिनट पर स्कूल पहुंचे थे, जबकि हमें आठ बजकर 40 मिनट तक ही परीक्षा केंद्र में पहुंचने की अनुमति है। इसके बाद ही हमने आठ बजकर 47 मिनिट तक गेट खुला रखा, लेकिन विद्यार्थी उसके बाद परीक्षा देने पहुंचे।     वहीं, पेपर नहीं दे पाने वाले छात्रों ने बताया कि उन्हें दसवीं बोर्ड की गंभीरता मालूम है, जिसके चलते वे सही समय पर स्कूल पेपर देने के लिए पहुंचे थे। छात्रों ने बताया कि उन्होंने संस्कृत विषय को लेकर बहुत तैयारी की थी, लेकिन परीक्षा न देने मिलने से उनको बहुत बड़ा नुकसान हो गया है, जिसका खामियाजा उन्हें आगे भुगतना पड़ेगा।     छात्रा अंशु कुशवाहा के पिता अशोक कुशवाहा ने बताया कि समय पर ही परीक्षा केंद्र पहुंच गए थे, लेकिन गेट सुबह साढ़े आठ बजे ही बंद कर दिए गए। अगर स्कूल में कैमरा लगा हो तो टाइम भी देख सकते हैं कि हम समय पर पहुंच गए। पेपर नहीं देने की बात से बच्ची की तबीयत खराब हो गई। छात्रा के पिता का कहना है कि बेटी पढ़ने में बहुत तेज है। वो इस बात को सहन नहीं कर पा रही है। वह बेहोश हो गई थी। उसे तुरंत ही डॉक्टर के पास उपचार लेकर गए। बेटी को सदमा सा लग गया है। डाक्टर ने एमआरआई करने के लिए कहा है। बेटी को पेपर देने के लिए हम बहुत गिड़गिड़ाएं लेने उसे पेपर नहीं देने दिया गया। मजदूरी करके बेटी को पढ़ा रहा हूं। पेपर नहीं दे पाने के कारण उसका भविष्य खराब हो गया है।     इस मामले में जिला शिक्षा अधिकारी घनश्याम सोनी ने बताया कि स्कूल में हंगामा होने के बाद लगभग साढ़े नौ बजे केंद्राध्यक्ष का काल आया। उन्होंने बताया कि कुछ विद्यार्थी नौ बजे के बाद परीक्षा केंद्र पहुंचे, जबकि नियमानुसार आठ बजकर चालीस मिनट तक ही विद्यार्थियों को परीक्षा केंद्र पहुंचना होगा। विशेष परिस्थितियां में कुछ समय तक की छूट दी गई है। सुबह परीक्षा केंद्र में केंद्राध्यक्ष के साथ कलेक्टर प्रतिनिधि, सहायक प्रतिनिधि भी मौजूद थे। मैं सुबह पाटन केंद्र में आ गया था। स्कूल पहुंचकर मामले की जांच करेंगे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 February 2024

jabalpur, Nurse shot , beach road

जबलपुर। ओमती थाना अंतर्गत रसल चौक के सिद्धार्थ होटल के पास बुधवार को बीच रोड पर एक युवक ने हत्या करने के उद्देश्य से एक नर्स को गोली मार दी! अचानक हुए इस हमले से अपना-तफरी मच गई। लोगों ने पुलिस को सूचना दी एवं घायल नर्स को जबलपुर अस्पताल पहुंचाया। अस्पताल में भर्ती युवती की हालत बेहद नाजुक बताई जा रही है। डॉक्टरों द्वारा युवती का उपचार किया जा रहा है। सूचना पर पहुंची ओमती पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपित से पुलिस पूछताछ कर रही है। घायल युवती फिलहाल कुछ बोलने की स्थिति में नहीं है। गोलीकांड की सूचना मिलते ही पुलिस के अधिकारी अस्पताल पहुंचे। पुलिस के अनुसार युवती कटनी निवासी बताई जा रही है जो की एक निजी अस्पताल में नर्स के रूप में कार्य करती थी। वहीं आरोपित भी कटनी का बताया जा रहा है नर्स और आरोपित में पहले से दोस्ती थी। आरोपित संदीप पुत्र चंद्रिका सोनी (निवासी कटनी) नामक लड़के ने गोली मारी है। युवती नाइट ड्यूटी के बाद बुधवार सुबह अस्पताल से पैदल इनकम टैक्स चौराहा स्थित अपने क्वार्टर जा रही थी। उधर पहले से घात लगाए बैठे युवक ने गोली से दनादन 2 फायर कर दिए।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 February 2024

jabalpur, SP suspended ,taking bribe

जबलपुर। लोकायुक्त पुलिस ने गुरुवार रात जिस हेड कॉन्स्टेबल को 40 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए पकड़ा है, उसे एसपी ने शुक्रवार को निलंबित कर दिया है। आरोपी हेड कांस्टेबल एक प्रॉपर्टी डीलर को 20 दिन से धमका रहा था। कभी घर जाकर, तो कभी फोन पर उनसे एक लाख रुपए की डिमांड करता। कहता था कि अगर रुपए नहीं दिए, तो 420 में केस बनाकर अंदर कर देगा।   प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रॉपर्टी डीलर संदीप यादव के खिलाफ शराब कारोबारी राजेंद्र जायसवाल ने गोरा थाने में शिकायत की थी। इसी शिकायत को रफा-दफा करने के बदले गोरा थाने में पदस्थ हेड कॉन्स्टेबल उर्मिलेश ओझा रुपए की डिमांड कर रहा था। बाद में रिश्वत की रकम 50 हजार, फिर 40 हजार रुपए तय हुई। शुक्रवार को हेड कॉन्स्टेबल उर्मिलेश को जबलपुर एसपी ने निलंबित कर दिया है। मामले में गोरा थाने के एक और हेड कॉन्स्टेबल राजेश गौतम का भी नाम सामने आ रहा है। पुलिस इसकी भी जांच कर रही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 February 2024

bhopal, Jabalpur ,Union Minister Gadkari

भोपाल। केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि जबलपुर मध्यप्रदेश का ग्रोथ इंजन है। यह पर्यटन की दृष्टि से महत्वपूर्ण है। साथ ही शिक्षा के क्षेत्र में जबलपुर का नाम पूरे देश में जाना जाता है। जबलपुर में सड़कों-पुलों के निर्माण और सामाजिक, सांस्कृतिक तथा आर्थिक विकास के लिये सरकार कार्य कर रही है।   केन्द्रीय मंत्री गडकरी मंगलवार को जबलपुर में वेटनरी कॉलेज ग्राउंड में विभिन्न राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सड़कों के निर्माण से उद्योगों का विकास होता है। पर्यटन में वृद्धि होती है। कृषि एक्सपोर्ट बढ़ता है और इस तरह सड़क प्रदेश के विकास की धुरी बन जाती है।   गडकरी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत का विजन, दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था और पांच ट्रिलियन इकोनॉमी बनाने का ध्येय गांव और किसानों के विकास से सीधा जुड़ा है। स्मार्ट शहर के साथ स्मार्ट विलेज के निर्माण से आत्म निर्भर भारत का निर्माण हो सकेगा।   उन्होंने कहा कि प्रदेश में राष्ट्रीय राजमार्ग और रिंग रोड निर्माण के दौरान जमीन से खोदी गई मिट्टी और मुरूम की जगह पर पानी का स्टोरेज टैंक और तालाब बनाया जा सकता है। इससे वाटर कंजर्वेशन तो होगा साथ ही किसानों को सिंचाई के लिए पानी भी उपलब्ध होगा। हर गांव की 75 फीसदी जमीन सिंचित होगी तो किसान और गांव समृद्ध होंगे और कृषकों की आमदनी बढ़ेगी।   किसान आगे बढ़कर बने ऊर्जा दाता केंद्रीय मंत्री गडकरी ने कहा कि मध्यप्रदेश का किसान, ग्रीन हाइड्रोजन, बायो एविएशन फ्यूल, बायो सीएनजी और बायो एलएनजी निर्माण की दिशा में कार्य करके अन्नदाता से आगे बढ़कर ऊर्जा दाता बन सकता है। कृषि से उपजे बायोमास को एनर्जी क्रॉप्स में परिवर्तित करें। उन्होंने पानीपत में इंडियन ऑयल के बिटुमिन प्लांट का उदाहरण देते हुए बताया कि प्रदेश में पराली से एक लाख लीटर एथेनॉल, 1.5 टन बिटुमिन और 75 हजार टन हवाई ईंधन तैयार किया जाता है। यह उत्पाद हवाई जहाज के ईंधन के रूप में उपयोग किए जा सकते हैं। इसे सस्टेनेबल एवियशन फ्यूल कहा गया है। दो साल पहले 26 जनवरी के कार्यक्रम में फाइटर जेट और हेलीकॉप्टर में बायो फ्यूल का उपयोग किया गया था।   ऊर्जा निर्यात करने वाला देश बनेगा भारत गडकरी ने कहा कि कोयले से मिथनोल बनाया जाता हैं। डीजल में 15 फीसदी मेथेनॉल मिलाकर बेंगलुरु में 25 बसें चलाने का प्रयोग सफल रहा है। मप्र में कोयले के प्रचुर भंडार उलब्ध हैं। मिथेनॉल की दर 22 रुपए लीटर और डीजल की 93 लीटर है। इस तरह मिथनॉल डीजल की अपेक्षा सस्ता ईंधन है। कोल माइन में मिथनॉल से चलने वाली मशीनें और ट्रक उपयोग करें। इन सब चीजों से देश में फॉसिल फ्यूल्स का आयात में कमी आयेगी। डीजल और पेट्रोल के उपयोग से होने वाला प्रदूषण कम होगा। मध्यप्रदेश में ऐसा प्रयोग करने और इस दिशा में अग्रणी होने की क्षमता है। देश का किसान देश के लिए ऊर्जा तैयार करेगा और देश ऊर्जा आयात करने वाला नहीं बल्कि ऊर्जा निर्यात करने वाला देश बनेगा। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश में फसल, फल सहित कृषि उत्पादों का प्रचुर मात्रा में उत्पादन होता है। राष्ट्रीय राजमार्ग और रिंग रोड से लगी सरकारी जमीन पर प्री कूलिंग प्लांट, कोल्ड स्टोरेज और लॉजिस्टिक पार्क आदि का विकास किया जा सकता है। इससे प्रदेश की सब्जी, फल और अन्य उत्पाद दुनिया के दूसरे देशों तक जाएंगे। इससे किसानों को फसल का सही दाम मिलेगा और क्षेत्र का विकास होगा। उन्होंने प्रदेश के विकास में उनके मंत्रालय से हर संभव मदद का आश्वासन भी दिया। केंद्रीय मंत्री गडकरी ने जबलपुर में 2367 करोड़ रुपये की लागत से 226 किलोमीटर लम्बी नौ राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं का शिलान्यास किया। इन परियोजनाओं से महाकौशल क्षेत्र के गेंहॅूं और धान कृषि व्यापार को बढ़ावा मिलेगा, प्रसिद्ध तीर्थ स्थलों तक कनेक्टिविटी आसान होगी, कटनी के कोयला खदान उद्योग को लाभ मिलेगा। प्रसिद्ध पर्यटन स्थल खजुराहो, ओरछा, राष्ट्रीय पेंच टाइगर कॉरीडोर तक कनेक्टिविटी आसान होगी, बुधनी टेक्सटाइल इंडस्ट्रीज और वुड क्राफ्ट व्यापार को लाभ मिलेगा साथ ही मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, गुजरात और दिल्ली राज्यों के बीच व्यावसायिक एवं नागरिक यातायात सुगम होगा। कार्यक्रम को केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री डॉ. वीरेन्द्र कुमार, केंद्रीय इस्पात राज्य मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते, मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव, लोक निर्माण मंत्री राकेश सिंह, पंचायत और ग्रामीण विकास मंत्री प्रहलाद पटेल, सांसद वीडी शर्मा ने भी किया। इस अवसर पर राज्यसभा सांसद सुमित्रा बाल्मीकि, पर्यटन निगम के अध्यक्ष विनोद गोंटिया सहित जनप्रतिनिधि, प्रशासनिक अधिकारी और बड़ी संख्या में आमजन उपस्थित रहे। केंद्रीय मंत्री गडकरी ने भारत को 2047 तक आत्मनिर्भर और विकसित राष्ट्र बनाने के सपने को साकार करने के लिए सभी को विकसित भारत संकल्प यात्रा की शपथ दिलवाई। उन्होंने मुख्यमंत्री डॉ. यादव के साथ कार्यक्रम के दौरान विकसित भारत संकल्प यात्रा के विभिन्न योजनाओं की हितग्राहियों को प्रतीकात्मक हितलाभ भी वितरित किए।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 January 2024

jabalpur, CBI presented, investigation report

जबलपुर/भोपाल। मध्यप्रदेश में हुए नर्सिंग कॉलेज फर्जीवाड़ा मामले में बुधवार को सीबीआई ने उच्च न्यायालय में जांच रिपोर्ट पेश की। बंद लिफाफे में 304 नर्सिंग कॉलेज की रिपोर्ट दी गई है। सीबीआई ने कोर्ट को यह भी बताया कि मेडिकल यूनिवर्सिटी से संबद्ध 50 कॉलेजों की जांच पर सुप्रीम कोर्ट की रोक होने के कारण उनकी जांच नहीं की जा सकी है। उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति रवि विजय कुमार मलिमठ और न्यायमूर्ति विशाल मिश्रा की युगलपीठ ने रिपोर्ट को रिकॉर्ड में लेते हुए अगली सुनवाई 23 जनवरी को निर्धारित की है। दरअसल, याचिकाकर्ता लॉ स्टूडेंट एसोसिएशन की तरफ से कोरोना काल के दौरान उच्च न्यायालय में दायर याचिका में फर्जी तरीके से नर्सिंग कॉलेज संचालित होने को चुनौती दी गई थी। याचिका में कहा गया है कि शैक्षणिक सत्र 2020-21 में प्रदेश के आदिवासी बाहुल्य इलाकों में 55 नर्सिंग कॉलेज को मान्यता दी गई है, जबकि वास्तविकता में ये कॉलेज सिर्फ कागज में संचालित हो रहे हैं। अधिकांश कॉलेज की निर्धारित स्थल में बिल्डिंग तक नहीं है। कुछ कॉलेज सिर्फ चार-पांच कमरों में संचालित हो रहे हैं। ऐसे कॉलेज में प्रयोगशाला सहित अन्य आवश्यक संरचना नहीं है। बिना छात्रावास ही कॉलेज का संचालन किया जा रहा है। याचिका की सुनवाई के दौरान हाई कोर्ट को बताया गया था कि एक ही व्यक्ति कई नर्सिंग कॉलेजों का प्राचार्य है और तथ्यात्मक रूप से भी अलग-अलग कॉलेज में कार्यरत है। जिन कॉलेज में वह कार्यरत है, उनकी दूरी सैकड़ों किलोमीटर दूर है। इसके अलावा माईग्रेट तथा फर्जी तथ्यों का मामला भी याचिकाकर्ता की तरफ से उठाया गया था। हाई कोर्ट ने याचिका की सुनवाई करते हुए डीएमई को तलब किया था। डीएमई अरुण श्रीवास्तव ने व्यक्तिगत रूप से उपस्थित होकर माफी मांगते हुए पूर्व रजिस्ट्रार के खिलाफ उचित कार्रवाई के संबंध में शपथ-पत्र प्रस्तुत किया था। युगलपीठ ने ग्वालियर तथा इंदौर खंडपीठ में लंबित नर्सिंग कॉलेज संबंधित याचिकाओं को मुख्यपीठ स्थानांतरित करने के आदेश जारी किए थे। याचिकाओं की सुनवाई करते हुए युगलपीठ ने प्रदेश के नर्सिंग कॉलेजों की जांच सीबीआई को सौंपी थी। युगलपीठ ने सीबीआई को जांच के लिए तीन माह का समय दिया था। याचिका की सुनवाई के दौरान चार जनवरी को सीबीआई ने 254 नर्सिंग कॉलेजों की जांच रिपोर्ट युगलपीठ के समक्ष पेश की थी। बचे हुए कॉलेजों की जांच के लिए युगलपीठ ने 15 दिनों का समय दिया था। हाई कोर्ट में चीफ जस्टिस रवि मलिमथ और जस्टिस विशाल मिश्रा की युगलपीठ में बुधवार को याचिका पर हुई सुनवाई के दौरान सीबीआई की तरफ से 50 कॉलेजों की रिपोर्ट पेश की गई। सीबीआई द्वारा एमपीएमएसयू से मान्यता प्राप्त 304 कॉलेजों की निरीक्षण रिपोर्ट अभी तक पेश की गई है। सरकार की तरफ से जीएनएम के रिजल्ट घोषित करने की अनुमति युगलपीठ से मांगी गई, लेकिन युगलपीठ ने इस पर हस्तक्षेप करने से इनकार कर दिया। सुनवाई के दौरान खुद याचिकाकर्ता भी मौजूद रहे। मामले की अगली सुनवाई 23 जनवरी को होगी। संभावना है कि इस दिन नर्सिंग कोर्स करने वाले विद्यार्थियों की परीक्षा को लेकर कोई फैसला हो सकता है। दरअसल, नर्सिंग कोर्स में प्रवेश लेने वाले लगभग करीब डेढ़ लाख विद्यार्थियों की 2020 के बाद से अब तक प्रथम वर्ष की परीक्षा नहीं हुई है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 January 2024

jabalpur, FIR lodged, film Annapurni

जबलपुर। नेटफ्लिक्स पर हाल ही में रिलीज हुई साउथ की प्रसिद्ध अभिनेत्री नयनतारा अभिनीत फिल्म "अन्नपूर्णी" की स्टार कास्ट के खिलाफ जबलपुर में एफआईआर दर्ज की गई है। अभिनेत्री नयनतारा के साथ फिल्म के निर्देशक निर्माता एवं अन्य कलाकारों के खिलाफ लव जिहाद और भगवान राम के अपमान करने के मामले में यह कार्रवाई की गई है।   ‘अन्नपूर्णी’ एक तमिल फिल्म है, जिसमें नयनतारा के साथ ही अभिनेता जय और सत्यराज भी अहम भूमिकाओं में हैं। हिन्दू सेवा परिषद के पदाधिकारी और कार्यकर्ता मंगलवार को ओमती थाने पहुंचे। कार्यकर्ताओं ने फिल्म में धार्मिक भावना को ठेस पहुंचाने का आरोप लगाया। परिषद के प्रदेश अध्यक्ष अतुल जसवानी समेत अन्य ने ओमती थाना प्रभारी वीरेन्द्र सिंह पवार को एक ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन के जरिए ओटीटी प्लेटफार्म पर रिलीज हुई फिल्म अन्नपूर्णी के निर्देशक निर्माता एवं कलाकारों पर एफआईआर दर्ज करने की मांग की गई। उसके बाद ओमती थाने की पुलिस ने जांच के बाद फिल्म के निर्माता-निर्देशक के साथ स्टार कास्ट के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 153 और 34 के तहत केस दर्ज किया है। यह एफआईआर फिल्म निर्देशक नीलेश कृष्णा, अभिनेत्री नयनतारा, निर्माता जतिन सेठी, आर रविन्द्रन और पुनीत गोईका के अलावा सारिक पटेल और मोनिका शेरगिल के खिलाफ दर्ज की गई है।     हिंदू सेवा परिषद के अतुल जेसवानी ने बताया कि अन्नपूर्णी फिल्म में कई ऐसे दृश्य ऐसे हैं, जो हिंदू धर्म के आराध्य मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम का अपमान करते हैं। फिल्म में भगवान श्रीराम के खिलाफ अनर्गल टिप्पणियां करते हुए हिंदुओं की भावनाओं को ठेस पहुंचाई गई है। जेसवानी के मुताबिक फिल्म में लव जिहाद दिखाया गया है। फिल्म के कलाकार के द्वारा यह भी प्रदर्शित किया गया है कि श्री राम भगवान वनवास के दौरान जानवरों को मार कर मांस खाते थे।     उन्होंने बताया कि फिल्म के आखिरी सीन में बिरयानी बनाने से पहले मंदिर के पुजारी की बेटी हिजाब पहनकर नमाज पढ़ती है। आरोप है कि फरहान नामक एक कलाकार ने अभिनेत्री का ब्रेनवास करके मांस कटवाया, क्योंकि उसका कहना है कि भगवान श्रीराम और माता सीता ने भी मांस खाया था। फिल्म में अभिनेत्री मंदिर नहीं जाकर फरहान के घर रमजान इफ्तार करने जाती है। फिल्म में लड़की के पिता संध्या आरती कर रहे हैं और दादी माला जप रही हैं, पर उनकी बेटी के मांस खाने और खिलाने के दृश्य आपस में जुड़े हुए हैं। अभिनेत्री के पिता एक मंदिर के प्रधान पुजारी हैं। वह विष्णु भगवान के लिए सात पीढ़ियों से भोग बना रहे हैं लेकिन उनकी बेटी को मुर्गा-मांस बनाते हुए दिखाया गया है। हिंदू लड़की को नमाज के लिए प्रेरित किया जा रहा है। फिल्म में फरहान नामक कलाकार के द्वारा कहा गया है कि भगवान श्रीराम, माता सीता और भगवान लक्ष्मण, शिव और भगवान मुरूगन भी जानवरों को काटकर पकाकर मांस खाया करते थे। फिल्म में एक ब्राह्मण हिंदू लड़की को मुस्लिम धर्म के लिए प्रेरित करना और हमारे धार्मिक ग्रंथ जैसे रामायण, पुराण और अन्य धार्मिक ग्रंथों का गलत तरीके से गलत तथ्यों के साथ भगवानों को अपमानित करना प्रदर्शित किया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 January 2024

bhopal, Rani Durgavati ,Shri Anna Promotion Scheme

भोपाल। मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव की अध्यक्षता में बुधवार शाम को जबलपुर में मंत्रि-परिषद की बैठक हुई, जिसमें जनहित के विभिन्न निर्णय लिए गए। मंत्रि-परिषद ने श्रीअन्न के उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए रानी दुर्गावती श्रीअन्न प्रोत्साहन योजना लागू करने का निर्णय लिया है। योजना के अंतर्गत श्रीअन्न-कोदो-कुटकी, रागी, ज्वार, बाजरा आदि के उत्पादन करने वाले किसानों को प्रति किलो 10 रुपये की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। यह राशि सीधे किसानों के खाते में अंतरित की जाएगी।   संसदीय कार्य मंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने बैठक के बाद मंत्रि-परिषद द्वारा लिए फैसलों की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि मंत्रि-परिषद ने वीरांगना रानी अवंती बाई लोधी और रानी दुर्गावती को श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए उनके सम्मान में पुरस्कार शुरू करने का निर्णय लिया है। रानी अवंती बाई लोधी सम्मान और रानी दुर्गावती सम्मान हर वर्ष दिया जाएगा। विपरीत परिस्थितियों में संघर्ष कर सफल होने वाली समाजसेवी महिलाओं को यह सम्मान प्रदान किया जाएगा।     दोनों वीरांगनाओं को आदर्श मानते हुए उनके जीवन पर अध्ययन करने वालों को प्रोत्साहित करने के लिए फेलोशिप शुरू की जाएगी। भावी पीढ़ी को रानी अवंती बाई लोधी और रानी दुर्गावती के आदर्श जीवन से परिचय कराने के लिए फिल्म बनाई जायेगी और साथ ही विश्वविद्यालयों, महाविद्यालयों और विद्यालयों के पाठ्यक्रम में प्रेरणादायी विषय शामिल किया जाएगा।   उन्होंने बताया कि मध्यप्रदेश में कोदो-कुटकी की खेती मण्डला, डिण्डोरी, बालाघाट, छिन्दवाड़ा, अनूपपुर, सीधी, सिंगरौली, उमरिया, शहडोल, सिवनी और बैतूल जिलों में होती है। कोदो-कुटकी के किसानों की आय में वृद्धि के लिए फसल उत्पादन, भण्डारण, प्रोसेसिंग, मार्केटिंग, उपार्जन, ब्राण्ड बिल्डिंग के साथ वैल्यू चेन विकसित करने के उद्देश्य से रानी दुर्गावती श्रीअन्न प्रोत्साहन योजना लागू की जा रही है।   उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा देश में एक नई मिलेट क्रांति का शुभारंभ किया है। उनकी पहल पर वर्ष 2023 को अंतरराष्ट्रीय मिलेट वर्ष घोषित किया गया है। तेंदूपत्ता संग्रहण दर अब चार हजार रुपये प्रति बोरा मंत्रि-परिषद ने तेन्दूपत्ता संग्रहण दर में वृद्धि करने का निर्णय लिया है। तेंदूपत्ता संग्रहण की दर तीन हजार रुपये प्रति मानक बोरा से बढ़ाकर चार हजार रुपये प्रति मानक बोरा की गई है। इस निर्णय से प्रदेश के 35 लाख तेन्दूपत्ता संग्राहकों को लगभग 165 करोड़ रुपये का अतिरिक्त पारिश्रमिक प्राप्त होगा। उल्लेखनीय है कि पूर्व वर्षों में तेंदूपत्ता संग्रहण दर 1250 रुपये प्रति बोरा थी। वर्ष 2022 से इसे बढ़ाकर तीन हजार रुपये प्रति बोरा की गई थी। अब तेंदूपत्ता संग्रहण दर चार हजार रुपये प्रति बोरा कर दिया गया है। ग्वालियर व्यापार मेले में मोटरयान कर की दर पर 50 प्रतिशत की छूट देने का निर्णय मंत्रि-परिषद द्वारा ग्वालियर व्यापार मेले को व्यापक स्वरूप देने और ऑटोमोबाइल सेक्टर में बिक्री को बढ़ावा देने के लिए मोटर साइकिल, मोटर कार तथा हल्के वाहनों के विक्रय पर नियमों के अधीन मोटरयान कर की दर पर 50% की छूट देने का निर्णय लिया गया है। इस निर्णय से ग्वालियर व्यापार मेले में व्यापार, पर्यटन एवं औद्योगिक गतिविधियों को बढ़ावा मिलेगा। उल्लेखनीय है कि ग्वालियर व्यापार मेला मध्यप्रदेश के सबसे बड़े और सबसे प्रसिद्ध व्यापार मेलों में से एक है। इस मेले ने राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय ख्याति अर्जित कर ली है। ग्वालियर व्यापार मेले में ग्वालियर चंबल क्षेत्र और आस-पास के राज्यों से लाखों लोग आते हैं। 32 हजार करोड़ रुपये की सिंचाई परियोजनाओं की अनुमति मंत्रि-परिषद ने मध्यप्रदेश में बुनियादी सिंचाई सुविधाओं का विकास करने की दृष्टि से और सिंचाई का रकबा बढ़ाने के लिए 32 हजार करोड़ रुपये की सिंचाई परियोजनाओं के निर्माण की कार्यवाही की अनुमति दी है। मंत्रि-परिषद ने प्रदेश में चार हजार 500 करोड़ रुपये की लागत के सड़क निर्माण के नए कार्यों को प्रारंभ करने की स्वीकृति दी है। यह प्रदेश के अधोसंरचना विकास की दिशा में बड़ा कदम है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 January 2024

jabalpur, Madhya Pradesh, High Court

जबलपुर। मध्यप्रदेश में दूसरे दिन मंगलवार को ट्रक-बस ड्राइवर्स की हड़ताल का असर जरूरी सेवाओं पर दिखने लगा है। इसी बीच मध्यप्रदेश हाई कोर्ट ने सरकार को हड़ताल खत्म कराने के निर्देश दिए हैं। हाई कोर्ट ने ये निर्देश दो याचिकाओं पर सुनवाई के दौरान दिये।   मध्यप्रदेश हाईकोर्ट ने मंगलवार को दो याचिकाओं पर सुनवाई में के दौरान कहा कि हड़ताल को तुरंत खत्म करवाया जाए। सरकार परिवहन सेवाएं बहाल करवाए। इस पर सरकार की तरफ से महाधिवक्ता ने कहा कि आज शाम तक इस मामले में अहम निर्णय लिया जा रहा है। हाईकोर्ट में ये याचिकाएं नागरिक उपभोक्ता मंच और अखिलेश त्रिपाठी की ओर से दायर की गई हैं।   इधर, ड्राइवर्स की हड़ताल के चलते भोपाल, इंदौर, जबलपुर और ग्वालियर सहित अन्य जिलों में दूध से लेकर सब्जी और किराना सप्लाई कम हुई है। ज्यादातर शहरों में सब्जियां महंगी हो गईं। स्कूल-कॉलेज बसें बंद रहीं। खरगोन में पुलिस और प्रर्शनकारियों के बीच झड़प हो गई। बुरहानपुर में हड़ताल कर रहे ड्राइवरों ने दूसरे वाहन चालकों को जूते-चप्पलों की माला पहनाने के प्रयास किए। कई वाहनों की हवा निकाल दी। ड्राइवर उस हिट एंड रन से जुड़े कानून का विरोध कर रहे हैं, जिसमें 10 साल की सजा और 7 लाख रुपये जुर्माने का प्रावधान किया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 January 2024

jabalpur, Young man ,work injured

जबलपुर। शहर के खमरिया इलाके में शुक्रवार सुबह करीब 11 बजे एक युवक को अचानक गोली लग गई, जिससे वह घायल हो गया। उसे मेडिकल कॉलेज में भर्ती किया गया है। घायल युवक का नाम दिलीप बैन है। वह सुबह काम पर जाने के लिए मोटरसाइकिल से घर से निकला था। बताया जा रहा है कि खमरिया इलाके में पुलिस ट्रेनिंग चल रही है। इसी दौरान दिलीप को गोली लगी होगी।     घायल युवक के परिजनों का कहना है कि दिलीप सुबह काम पर जा रहे थे, उसी समय एक गोली उनके कानों को छूती हुई निकली, जबकि दूसरी गोली हाथ में लगी। परिजनों का कहना है कि गांव से लगे कैलाश धाम के नीचे बीएसएफ का ट्रेनिंक कैंप चल रहा है, जहां जवान फायरिंग की प्रेक्टिस करते हैं। उनका आरोप है कि पहले भी इलाके में इस तरह की घटनाएं हो चुकी हैं। हालांकि, इस मामले में अभी सुरक्षा बलों की तरफ से कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  15 December 2023

jabalpur, Central GST, raids spice trader

जबलपुर। शहर की केंद्रीय जीएसटी शाखा द्वारा सोमवार को छतरपुर के पान मसाला कारोबारी मेसर्स तमन्ना ट्रेडिंग एंड मैन्युफैक्चरिंग के ठिकानों पर छापामारी की है। केंद्रीय जीएसटी जबलपुर क्षेत्र के अंतर्गत छतरपुर उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश की बॉर्डर पर माना जाता है। इस कार्रवाई में लगभग 30 सदस्य शामिल हुए केंद्रीय जीएसटी विभाग को सूचना मिल रही थी कि पान मसाला कारोबार बिना जीएसटी भुगतान के संचालित हो रहा है। जिस पर संज्ञान लिया गया एवं पान मसाला से संबंधित कई ठिकानों पर छापेमारी की गई है।   इस छापेमारी में कई दस्तावेज और गोदाम में रखे स्टॉक व बैंक के खातों की जांच की गई इसमें बड़ी मात्रा में अनियमिता पकड़ी गई | केंद्रीय जीएसटी द्वारा व्यापारी पर 10 लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया। टीम ने आगे की कार्रवाई के लिए सभी साक्ष्य को अपने कब्जे में ले लिया है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 December 2023

jbalpur, blackmailing, retired ADM

जबलपुर। जबलपुर के मदन महल थाना अंतर्गत एलआईसी से रिटायर्ड एडीएम को कुछ लोगों ने अपने झांसे में लेकर अश्लील वीडियो बना लिया एवं उसके बाद उन्हें ब्लैकमेल करने लगे। पुलिस में शिकायत पहुंचने के बाद मामला दर्ज कर लिया है। घटना के संबंध में मदनमहल थाना प्रभारी प्रवीण धुर्वे ने बताया की एलआईसी से रिटायर्ड एडीएम ने एक शिकायत दर्ज कराई है कि वर्ष 2020 में दो व्यक्तियों ने उनको उन्हीं के घर में कोल्ड ड्रिंक में नशीला पदार्थ पिलाकर बेहोश कर उनका निर्वस्त्र वीडियो बना लिया था । जब को होश आया तो उनको इस वीडियो को वायरल करने की धमकी देते हुए व्यक्तियों ने करीब 62 लाख 64 हजार की राशि वसूली। मामला जब ज्यादा बढा तो पीड़ित ने इसकी शिकायत मदनमहल थाने में की। शिकायतकर्ता ने बताया की आरोपितों ने न केवल वीडियो वायरल के लिए धमकाया, बल्कि उन्हें गोली मारने की भी धमकी दी । इन आरोपितों के नाम प्रदीप पटेल विक्रम पटेल बताए जाते हैं । शिकायतकर्ता का कहना है कि उसने अपने फंड लगभग 62 लाख रुपए से अधिक राशि उनको दे चुके हैं,अब उनके पास देने के लिए पैसे नहीं है। इसके बाद भी आरोपी अब उनका मकान अपने नाम करवाने का दबाव डाल रहे हैं। फिलहाल पुलिस ने धाराओं में मामला दर्ज कर आरोपितों की तलाश शुरू कर दी है । आरोपितों के पकड़े जाने पर उनसे और भी ख़ुलासे होने की संभावना है ।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 December 2023

jabalpur, Murder of young man , public

जबलपुर। ओमती थाना क्षेत्र के सिविक सेंटर में सोमवार देर रात सरेआम एक युवक को कुछ लोगों ने चाकुओं से गोद डाला, जिसकी अस्पताल ले जाते समय मौत हो गई। इस पूरे घटनाक्रम का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है। पुलिस सूत्रों के अनुसार लकड़गंज निवासी मुशाहिद खान जो कि ई-रिक्शा व्यवसायी का पुत्र है, सिविक सेंटर में अपने दोस्तों के साथ खड़ा हुआ था। यहां रास्ते पर पहले से इंतजार कर रहे सुजल ने पूछा की तुम में से मुसाहिद कौन है। मुसाहिद ने जैसे ही अपना नाम बताया वैसे ही सुजल सोनकर और उसके साथियों ने मुसाहिद पर चाकुओं से हमला करना शुरू कर दिया। आरोपितों ने उस पर ताबड़तोड कई वार किये, जिससे वह वहीं गिर पड़ा। हमला करने के बाद हमलावर तुरंत भाग गए। भीड़भाड़ वाले सिविक सेंटर इलाके में हुई इस हत्या के कारणों का पता नहीं चल पाया है।   खबर लगने पर मौके पर पहुंचे परिजनों एवं पुलिस ने घायल मुशाहिद को तुरंत विक्टोरिया हॉस्पिटल पहुँचाया। जहां से उसे मेडिकल रेफर कर दिया गया, परंतु अधिक रक्तस्राव के कारण घायल ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। वहीं घटना की संवेदनशीलता देखते हुए पुलिस ने आरोपियों की गिरफ़्तारी हेतु ताबड़तोड़ छापेमारी की। जिससे तीन आरोपी सुजल सोनकर, अमन तिवारी, आदित्य झा को हिरासत में लिया गया। जबकि चौथा आरोपी चीनू सोनकर अभी फरार बताया जा रहा है। घटना के बाद संवेदनशीलता को देखते हुए भारतीपुर, ओंमती, बेलबाग, लकड़गंज, जैसे क्षेत्रों में पुलिस की गस्त बढ़ा दी गई है एवं बल तैनात कर दिया गया है। थाना प्रभारी वीरेंद्र पवार के अनुसार चौथे आरोपी को भी शीघ्र गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 November 2023

Jabalpur, Central GST team, raids two firms

जबलपुर। मध्यप्रदेश के जबलपुर शहर में सेंट्रल जीएसटी की टीम ने शनिवार को बड़ी कार्रवाई की है। यहां दो फर्मों पर सेंट्रल जीएसटी की टीम ने छापा मारा है। कार्रवाई के बाद से शहर के दूसरे व्यापारियों में हड़कंप की स्थिति है।     जानकारी अनुसार सेन्ट्रल जीएसटी की टीम ने जिन दाे फर्म पर छापा मारा है वह बड़े पैमाने पर फर्नीचर और गद्दों का काम करती है। बड़े व्यापार के बाद भी टैक्स भरने में लापरवाही और चोरी की आशंका के बाद जीएसटी की टीम ने रिटर्न फाइल करने में गड़बड़ी की आशंका के चलते छापेमारी की है। दोनों फर्मों के दस्तावेज अपने कब्जे में लेकर टीम के अधिकारी जांच पड़ताल कर रहे हैं। दोनों फर्म शहर के करमचंद चौक और कटंगी बाईपास पर संचालित है। समाचार के लिखे जाने तक जीएसटी टीम में शामिल अधिकारी कर्मचारियों की कार्रवाई जारी थी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 November 2023

jabalpur, Electoral Hindu mKamal Nath

जबलपुर। अपने दौरे पर पहुंचे पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं सांसद रविशंकर प्रसाद ने पत्रकार-वार्ता को संबोधित किया । उन्होंने मिडिया से बात करते हुए कहा कि हम मध्यप्रदेश में स्थाई विकास की सरकार के लिए लड़ रहे हैं। भाजपा सरकार ने विकास के लिए जो काम किए उससे प्रदेश बीमारू राज्य से बाहर निकलकर विकसित राज्य बन गया है। नए मेडिकल कॉलेज, नए आईआईटी कॉलेज खोले गए। मध्यप्रदेश संस्कार, संस्कृति का केंद्र है। यहां शंकराचार्य जी की मूर्ति स्थापित की गई। उज्जैन में श्री महाकाल मंदिर कॉरिडोर बनाया गया। प्रसाद ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी मध्यप्रदेश से बहुत स्नेह रखते हैं। इसी कारण प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी जी अभी तक 38 दौरे कर चुके हैं। मनमोहन सिंह ने प्रधानमंत्री कार्यकाल के दौरान मध्यप्रदेश में कुछ ही दौरे किए थे। छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रतिमा तोड़ी गई प्रसाद ने कहा कि मैं कमलनाथ जी से एक सवाल पूछता हूं कि राहुल गांधी मोहब्बत की दुकान खोलने की बात करते हैं ,लेकिन वे कांग्रेस में मोहब्बत कब पैदा करेंगे। कांग्रेस में कुर्ता फाड़ बयान जारी हो रहे हैं। कांग्रेस में मोहब्बत नहीं बिखराव है। छिंदवाड़ा के कांग्रेस प्रत्याशी अपने पोस्टरों में राहुल गांधी के फोटो नहीं लगाते हैं। 43 साल से कमलनाथ छिंदवाड़ा से बड़े नेता हैं। बड़े विभागों के मंत्री भी रहे। कमलनाथ बड़े व्यापारी और उनके बड़े -बड़े शैक्षणिक संगठन हैं। मैं उनसे ये पूछना चाहता हूं कि उन्होंने यहां के लिए क्या किया। प्रसाद ने कहा कि जब मध्यप्रदेश में कमलनाथ सरकार थी तब सौसर में छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रतिमा को बुल्डोजर से गिराया गया था। कांग्रेस ने राजनीति को दिया कुर्ता फाड़ शब्द प्रसाद ने कहा कि बिहार अक्सर राजनीति को नये-नये शब्द देने के लिए मशहूर है, लेकिन इस बार बिहार को पीछे छोड़कर मध्यप्रदेश ने राजनीति को एक नया शब्द दिया है ’कुर्ता फाड़’ राजनीति। समझ में नहीं आता कि इसके लिए कांग्रेस पार्टी को बधाई दूं, उसका अभिनंदन करूं या इस पर दुख जताऊं। दो बड़े नेता, जिनमें से एक मुख्यमंत्री पद का दावेदार है और दूसरा पूर्व मुख्यमंत्री है। इनमें से मुख्यमंत्री पद के दावेदार पूर्व मुख्यमंत्री के लिए कहते हैं कि इसके कपड़े फाड़ो। प्रसाद ने कहा कि इससे पता चलता है कि कांग्रेस में अंदर खाने सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है। ये कांग्रेस के नेताओं के राजनीतिक स्वार्थ का टकराव है।   कमलनाथ और नकुलनाथ राहुल गांधी को नहीं मानते प्रसाद ने कहा कि दरअसल कमलनाथ और नकुलनाथ राहुल गांधी को कुछ नहीं मानते। दोनों पिता -पुत्र सनातन के भी विरोधी हैं। प्रसाद ने कहा कि सभी विपक्षियों ने मिलकर जो इंडी एलायंस बनाया है उसे हम घमंडी एलायंस कहते हैं, क्योंकि उस एलायंस में कोई एक मत नहीं हैं। यह एलायंस अवसरवादी लोगों का गठबंधन है, जो बनने से पहले ही बिखर गया है। तीन प्रदेश में बनेगी भाजपा की सरकार प्रसाद ने हुए कहा मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में भाजपा की सरकार बनेगी। मध्यप्रदेश में चुनावी मुद्दा जमीन पर दिखने वाले काम और झूठ के पुलिंदे के बीच होगा। राज्य में विकास के पैमाने की बात आती है तो हम देखते है कि राज्य में प्रति व्यक्ति आय कितनी बढ़ी है, राज्य में सड़कों का निर्माण कितना हुआ है, राज्य में अपराध की स्थिति क्या है। इन सारे पैरामीटर में आपका अपना मध्यप्रदेश आगे निकल गया है। यह सब भाजपा की सरकार में हो पाना संभव हुआ है।   महिलाओं का स्वाभिमान, किसानों का सम्मान प्रसाद ने कहा कि प्रदेश में जहां महिलाओं के स्वाभिमान का ख्याल रखा गया.वहीं, किसानों का सम्मान भी किया गया। इसी कारण आज किसानों को सम्मान निधि केंद्र और राज्य सरकार मिलाकर दे रही है। हमारी लाड़ली बहनों के खाते में प्रतिमाह 1250 की राशि आ रही, जिससे हमारी बहनें आत्मनिर्भर हो रही। युवाआें को सीखो कमाओ योजना का लाभ मिल रहा और कोई वर्ग अछूता नही है। जिसे सरकार योजनाओं के माध्यम से लाभान्वित ना कर रही हो। जबलपुर का हुआ ऐतिहासिक विकास प्रसाद ने कहा कि मैं पहले भी जबलपुर आया हूं पर इस बार तो देखने में आया कि यहां अभूतपूर्व विकास कार्य हुआ है। 450 करोड़ की लागत से शानदार एयरपोर्ट बन रहा है, प्रदेश का सबसे बड़ा फ्लाई ओवर यहां बन रहा है। देश की सबसे बड़ी रिंग रोड यहां बन रही और चारों और की सड़के चौड़ी हो गई है। आज का जबलपुर विकास के रास्ते पर अग्रिम पंक्ति में आकर खड़ा हो गया है। जबलपुर दौरे के दौरान पूर्व केन्द्रीय मंत्री ने पार्टी के अनेक नेताओं से मुलाक़ात की ।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 November 2023

jabalpur, Kamal Nath ,Prahlad Patel

जबलपुर। भाजपा अगर सत्ता में रहेगी तो भारत को विश्व गुरू बनने से कोई रोक नहीं पाएगा। केवल भारतवर्ष ही नहीं, बल्कि देश के प्रत्येक प्रदेश की अपनी अलग पहचान होगी। देश की एकता और अखंडता की वास्तविक तस्वीर भाजपा ही प्रस्तुत कर सकती है। यह बात केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल ने जबलपुर के पाटन विधानसभा से भाजपा प्रत्याशी अजय विश्नोई के समर्थन में पौंडा में जनसभा को संबोधित करते हुए कही। श्री पटेल ने कहा कि नौजवानों के कंधों पर पार्टी को जिताने का अहम दायित्व रहेगा, इसलिए पूरी ताकत के साथ 17 नवंबर को जब तक मतदान नहीं हो जाता तब तक काम करना है। भाजपा की केन्द्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने देश की मातृशक्ति और गरीबों-दिव्यांगों की आंख से आंसू पोंछने का काम किया है। हम ये केवल वोट पाने के लिये नहीं कह रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने शौचालयों का निर्माण किया है। इससे हमारी मातृशक्ति का जो सम्मान बढ़ा है, वो शब्दों में बयान नहीं किया जा सकता है। जलशक्ति मिशन से घर-घर जल पहुंचाने का सपना भाजपा की सरकार ने ही देखा और उसे पूरा कर दिया। माताओं-बहनों के लिये ये योजना भी वरदान जैसी ही है। उन्होंने कहा, किसानों को सम्मान निधि देने का कार्य प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ही कर सकते थे। आज हर गांव तक पक्की सड़क का श्रेय भी पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी को ही जाता है। राज्य सरकार की लाड़ली लक्ष्मी योजना और लाड़ली बहना योजना इस बात के प्रत्यक्ष प्रमाण हैं कि भाजपा अंतिम व्यक्ति के कल्याण के लिये संकल्पित है।   भाजपा प्रत्याशी अजय विश्नोई ने इस क्षेत्र का समग्र विकास किया केन्द्रीय मंत्री पटेल ने कहा कि भाजपा के प्रत्याशी अजय विश्नोई पार्टी के वरिष्ठ नेता हैं और क्षेत्र के लिए बेहतर जनप्रतिनिधि हैं। उन्होंने क्षेत्र के विकास के लिए अनेक कार्य किए हैं। श्री पटेल ने कहा कि इस बार हमें तीन दीवाली मनानी है। पहली दीवाली 12 नवंबर को है। दूसरी दीवाली है 3 दिसंबर को, जब हम भाजपा को वोट देकर प्रत्याशियों की विजय सुनिश्चित करेंगे और तीसरी महादीवाली 22 जनवरी 2024 को जब हमारे आराध्य रामलला अपनी जन्मभूमि में बने विशाल मंदिर के गर्भगृह में विराजेंगे। तीन दीवाली मनाने का सौभाग्य हमें मिला है, इसे हमें किसी भी हाल में खोना नहीं है। जनसभा पहले केन्द्रीय मंत्री पटेल ने सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती के अवसर पर उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। इस अवसर पर भाजपा ग्रामीण पूर्व अध्यक्ष श्री शिव पटेल आदि मौजूद रहे।     कांग्रेस के लिए बोझ बन गए हैं कमलनाथ   श्री प्रहलाद पटेल ने कटनी जिले की बहोरीबंद विधानसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी श्री प्रणय प्रभात पांडे के समर्थन में ग्राम रीठी में जनसभा के दौरान आम आदमी पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि देश की कट्टर ईमानदारों वाली पार्टी का दंभ भरने वाली पार्टी के नेताओं का आधा मंत्रिमंडल जेल पहुंच गया है। अब मुखिया के भ्रष्टाचार की पोल खुलने वाली है। ईडी ने उन्हें भी बुलावा भेजा है। ये सब पार्टियां कांग्रेस जैसी ही हैं। कांग्रेस के नेता हैं कमलनाथ, जो अब अपनी ही पार्टी पर बोझ बन गए हैं। वहीं,उनका सांसद सुपुत्र दो किलोमीटर पैदल नहीं चल सकता।     कांग्रेस राज में किसानों को करना पड़ी आत्महत्या   श्री पटेल ने कहा कि कांग्रेस की प्रदेश सरकार ने जब कर्जमाफी की घोषणा की तो किसान खुश हो गए, लेकिन जब घोषणा पूरी नहीं हुई तो मासूम किसानों को आत्महत्या करनी पड़ी। ये इनका असली चरित्र है। इनके भय, लालच और भ्रम में फंसने के बजाए विकास के मार्ग पर तत्पर भाजपा को वोट देकर बाहरी मतों से यहां के प्रत्याशी को जिताकर भेजना है। उन्होंने कहा कि भाजपा का संकल्प है कि 2024 तक देश के प्रत्येक घर में पाइपलाइन से शुद्ध जल पहुंचाया जाएगा। राज्य सरकार की बात करें तो मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने बेटियों और किसानों के लिए जो काम किए हैं, वे जलकल्याण की अनूठी मिसालें हैं। भाजपा में तीन मुख्यमंत्री पिछड़ा वर्ग से रहे श्री पटेल ने कहा कि कमलनाथ जवाब दें कि उनकी पार्टी ने अब तक कितने पिछड़े मुख्यमंत्री दिए, भाजपा ने बीते 20 सालों में तीन-तीन मुख्यमंत्री इस वर्ग से दिए। उन्होंने कहा कि कांग्रेसियों अब राममंदिर की तारीख भी आ गयी है। यदि हिम्मत है तो 22 जनवरी को अयोध्या आएं और रामलला के दर्शन करें।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 October 2023

jabalpur, Lokayukta , Mining Department

जबलपुर। जबलपुर लोकायुक्त ने मंगलवार को कार्यवाही करते हुए आरोपित होमगार्ड सैनिक क्रमांक 260 नंदलाल झारिया उम्र 55 वर्ष कार्यालय क्षेत्रीय प्रमुख संचालनालय भौमिकी तथा खनिकर्म क्षेत्रीय कार्यालय जबलपुर और विनोद कुमार सेन उम्र 55 वर्ष प्राइवेट ड्राइवर खनिज विभाग जबलपुर को 12,000 रुपये की घूस लेते हुए रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया है। माइनिंग ऑफिस से घूसखोर होम गार्ड सैनिक और ड्राइवर को गिरफ्तार किया है । प्राप्त जानकारी के मुताबिक आवेदक गिरधारी सिंह पटेल पुत्र स्वर्गीय प्यारेलाल पटेल उम्र 48 वर्ष निवासी ग्राम भडरी तहसील गोटेगांव जिला नरसिंहपुर ने लोकायुक्त में शिकायत दी थी की 26 अक्टूबर को स्वयं के ट्रैक्टर से मानेगांव क्रेशर से 2500 रुपये की रसीद कटवा कर गिट्टी मंगवाई थी। जिसे खनिज विभाग के सैनिक नंदलाल झरिया द्वारा सिवनी टोला के पास पकड़ लिया था । जुर्माना कम करवाने एवं केस हल्का बनवाने के एवज में 15000 रुपये की रिश्वत की मांग की थी । जिसकी शिकायत लोकायुक्त कार्यालय जबलपुर में 30 तारीख को की गई थी। शिकायत सत्यापन पर सैनिक नंदलाल झारिया व प्राइवेट ड्राइवर विनोद कुमार सेन मोलभाव करने पर 12000 रुपये रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़े गए । पुलिस अधीक्षक लोकायुक्त संजय साहू के निर्देश पर कार्यवाही करने गए ट्रैप दल में डीएसपी दिलीप झरवडे, निरीक्षक रेखा प्रजापति, निरीक्षक कमल सिंह उईके के सहित 5 सदस्यीय दल मौजूद रहा ।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 October 2023

jabalpur, BJP

जबलपुर। हम भाग्यशाली हैं कि हमें प्रधानमंत्री के रूप में नरेंद्र मोदी जी और मुख्यमंत्री के रूप में शिवराज सिंह चौहान का नेतृत्व मिला है। केंद्र और राज्य में डबल इंजन की सरकार के शासन में हर क्षेत्र में उल्लेखनीय विकास हुआ है। हमें केन्द्र और प्रदेश सरकार की योजनाओं को जनता तक पहुंचाकर उन्हें लाभ दिलाना है और उनका विश्वास अर्जित करना है। यह बात भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने पाटन विधानसभा, जबलपुर मझौली पश्चिम व पोड़ा के कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कही। विजयवर्गीय ने कहा कि सरकारों ने गरीब कल्याण की कई योजनाओं को चलाया, जिसका लाभ लोगों को मिल रहा है। यह बात अगर आप लोगों तक लेकर जाएं। भाजपा देश के लिए काम करती है   विजयवर्गीय ने कहा कि कांग्रेस सत्ता प्राप्ति के लिए किसी भी हद तक जा सकती है। जब जब चुनाव आते हैं कांग्रेस जनता से वादे करती है। सरकार में आते ही वादे भूल जाती है। इस समय देश में दो तरह की पार्टियां हैं। एक देश के लिए राजनीति करती है तो दूसरी कुर्सी के लिए। हम उस पार्टी के कार्यकर्ता हैं जो देश के लिए काम करती है। बूथ तभी मजबूत होंगे जब हम हमारी योजनाओं के साथ-साथ राष्ट्रप्रेम की बात भी जनता तक पहुंचायेंगे। सम्मेलन में विजयवर्गीय ने कार्यकर्ताओं से आह्वान किया कि पाटन विधानसभा में यूं ही निरंतर विकास की गंगा बहती रहे, इसीलिए प्रत्येक कार्यकर्ता को सक्रिय होकर काम करना होगा। विधानसभा में प्रचंड मतों के साथ विजयी होकर प्रदेश में पुनः भाजपा सरकार बने यही हमारा लक्ष्य होना चाहिए। इस अवसर पर भाजपा प्रत्याशी अजय विश्नोई, अलका विश्नोई, मंडल अध्यक्ष मुकेश सेन सहित पार्टी पदाधिकारी व कार्यकर्ता उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 October 2023

jabalpur, Amit Shah, holding a meeting

जबलपुर। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह शनिवार को जबलपुर पहुंचे। डुमना एयरपोर्ट पर दोपहर 10 बजे पहुंचने के बाद उन्होंने माल गोदाम चौक स्थित शहीद शंकर शाह , रघुनाथ शाह की प्रतिमाओं पर माल्यार्पण किया। इसके पश्चात भाजपा के संभागीय पदाधिकारीयों की बैठक लेने रानीताल स्थित संभागीय कार्यालय पहुंचे । अमित शाह ने बैठक को संबोधित करते हुए आगामी विधानसभा चुनाव के लिए महाकौशल की 38 सीटों के लिए सभी पार्टी पदाधिकारी को अपना मार्गदर्शन दिया। इस अवसर पर अमित शाह जी ने उपस्थित सभी कार्यकर्ताओं को आगामी विधानसभा लोकसभा चुनाव में पार्टी को प्रचंड विजय दिलाने का संकल्प भी दिलाया। भाजपा की संभागीय बैठक में लगभग 215 पदाधिकारी को बुलाया गया था । इस बैठक में जबलपुर जिले की आठ विधानसभा के प्रत्याशियों सहित संभाग के किसी भी भाजपा प्रत्याशी को नहीं बुलाया गया। इस बैठक में प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा,मध्य प्रदेश चुनाव प्रभारी भूपेंद्र यादव,केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव, केंद्रीय मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल जी, केंद्रीय मंत्री फगन सिंह कुलस्ते, संगठन महामंत्री हितानंद शर्मा, सभी जिला अध्यक्ष, संयोजक , प्रभारी, व स्थानीय संयोजकों को बुलाया गया। डुमना एयरपोर्ट पर केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह की अगवानी के लिए केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल सहित भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बीडी शर्मा केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते, सांसद राकेश सिंह जिला अध्यक्ष प्रभात साहू, मौजूद रहे । सुनने में आ रहा है कि जबलपुर उत्तर मध्य से टिकट न मिलने को लेकर नाराज चल रहे धीरज पटेरिया को अमित शाह ने बुलवाया । जहां बंद कमरे में काफी देर चर्चा चली । अमित शाह के समझाने के बाद धीरज पटेरिया ने निर्दलीय चुनाव न लड़ने का फैसला किया है ।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 October 2023

jabalpur, Gongpa workers attack , Kulaste

जबलपुर। केंद्रीय मंत्री फग्गनसिंह कुलस्ते ने कहा कि मंगलवार को उमरिया जिले में गोंडवाना गणतंत्र पार्टी और पुलिस के बीच हुई झड़प उग्रवादियों जैसी घटना थी। कुलस्ते गुरुवार को जबलपुर में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि इस प्रकार के आंदोलन से कोई राजनीतिक लाभ नहीं होता है। हम जनता के लिए काम करते हैं। जो भी निर्णय करेंगे उससे जनता अपनी सोच बनाती है।     पत्रकारों से बातचीत में केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह ने कहा कि मध्यप्रदेश बहुत ही शालीन प्रदेश हैं। यहां किसी भी तरह का हिंसक व्यवहार सही नहीं है। उमरिया की घटना में कानून अपना काम करेगा। गौरतलब है कि मंगलवार को उमरिया में गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के कार्यकर्ताओं की पुलिस से झड़प हुई थी। हमले में दो एएसपी, दो टीआइ व एसडीओपी समेत 25 पुलिसकर्मी घायल हुए थे। मामले में बुधवार को पुलिस ने हत्या का प्रयास और बलवा का मामला दर्ज कर 42 लोगों को गिरफ्तार किया है। कई अन्य लोगों की तलाश भी पुलिस कर रही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 September 2023

jabalpur,Income Tax Department, raids Rajul Builder

जबलपुर। आयकर विभाग ने मंगलवार सुबह जबलपुर में राजुल बिल्डर के ठिकानों पर छापमार कार्रवाई की है। लम्बे समय से मिल रही आयकर चोरी की शिकायतों के मद्देनजर भोपाल से आई टीम द्वारा यह कार्रवाई की जा रही है। बिल्डर दिलीप मेहता के घर, दफ्तर और उनके करीबियों के करीब 10 से ज्यादा ठिकानों पर आयकर विभाग की टीम सर्चिंग में जुटी है और दस्तावेजों की जांच की जा रही है।     जानकारी के मुताबिक, आयकर विभाग को लम्बे समय से सूचना मिल रही थी कि राजुल बिल्डर के मालिक दिलीप मेहता टैक्स चोरी और रिटर्न में गड़बड़ी कर रहे हैं। मंगलवार सुबह भोपाल से आयकर विभाग की टीम जबलपुर पहुंची और एक रणनीति के तहत नर्मदा परिक्रमावासी बनकर रसल चौक स्थित राजुल बिल्डर के कार्यालय समेत अन्य ठिकानों पर दबिश दी। यहां आयकर अधिकारियों द्वारा तमाम दस्तावेजों की जांच की जा रही है। किसी की यह समझ में नहीं आया कि नर्मदा परिक्रमावासियों की कारें राजुल बिल्डर के आफिस में क्यों पहुंची है। फिलहाल, कार्रवाई जारी है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 September 2023

jabalpur, Passenger , Delhi to Jabalpur dies

जबलपुर। दिल्ली से जबलपुर आ रहे इंडिगो एयरलाइंस के विमान में सवार यात्री की रविवार को हार्ट अटैक से मौत हो गई। जबलपुर के डुमना एयरपोर्ट पर विमान के पहुंचने के बाद यात्री के शव को अस्पताल ले जा गया, जहां खमरिया थाना पुलिस ने पोस्टमार्टम कराने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया।     खमरिया थाना पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, शहर के गोरखपुर न्यू क्रिश्चियन कॉलोनी निवासी राजेन्द्र फैन्क्वलीन (69) अपनी पत्नी डॉली के साथ रविवार दोपहर 1.55 बजे इंडिगो के विमान में सीट क्रमांक बी 29 में दिल्ली से सवार हुए थे। विमान ने उड़ान भरी ही थी कि कुछ देर बाद उन्हें सीने दर्द शुरू हो गया। कोई कुछ समझ पाता, इसके पहले ही राजेन्द्र की मौत हो गई। यह जानकारी पायलट ने तत्काल जबलपुर के डुमना एयरपोर्ट पर एटीसी को दी। एटीसी ने खमरिया पुलिस को बुलाया। फ्लाइट दोपहर 3.30 बजे डुमना एयरपोर्ट पर लैंड हुई। इसके बाद पुलिस ने पंचनामा की कार्रवाई पूरी कर शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल पहुंचाया। पुलिस के अनुसार राजेन्द्र को दो बार पहले भी अटैक आ चुका था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 September 2023

jabalpur, Jan Ashirwad Yatra , Bargi

जबलपुर। महाकोशल क्षेत्र की जन आशीर्वाद यात्रा रविवार सुबह बरगी से प्रारंभ हुई। केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल, सांसद राव उदयप्रताप सिंह, यात्रा सह प्रभारी अभिलाष पांडे ने यात्रा का शुभारंभ किया। यह यात्रा लखनादौन, धनोरा, पलारी होते हुए सिवानी पहुंचेगी। यात्रा के शुभारंभ के अवसर पर जबलपुर ग्रामीण जिला अध्यक्ष रानू तिवारी, बरगी विधानसभा प्रत्याशी नीरज सिंह, प्रदेश सह मीडिया प्रभारी प्रशांत तिवारी, रविंद्र पचौरी, नितिन भाटिया, गोलू गोस्वामी, ऋषि शुक्ला सहित सैकड़ों की संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित रहे। यात्रा में शामिल हुए प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा, धूमा में हुआ अभूतपूर्व स्वागत   भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा महाकोशल क्षेत्र की जन आशीर्वाद यात्रा में धूमा में शामिल हुए। पार्टी कार्यकर्ताओं एवं ग्रामीणों ने ग्राम पंचायत बंजारी में प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा एवं जन आशीर्वाद यात्रा का भव्य स्वागत किया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 September 2023

Jabalpur, Heavy rains , railway track

जबलपुर। जबलपुर और आसपास के जिलों में बीते 48 घंटों के दौरान हुई तेज बारिश में रेलवे ट्रेक की गिट्टी बह गई। जबलपुर-कटनी रेल खंड में देवरी और गोसलपुर स्टेशन के बीच हुई तेज बारिश के चलते ट्रेक के आस-पास की गिट्टी बह गई। इलेक्ट्रिक लाइन का एक पोल भी झुक गया। इस घटना की जानकारी लगते ही रेल प्रशासन ने देवरी से गोसलपुर के बीच डाउन ट्रेक पर रेल गाड़ियों की आवाजाही रोक दी और सुधार कार्य शुरू कराया। अलसुबह प्रकाश में आई इस घटना के बाद डाउन ट्रेक की अनेक गाड़ियों को अप ट्रेक से रवाना किया गया। वहीं आज तीन ट्रेनें रद्द की गईं हैं।     रेल मंडल कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार आज गुरुवार की सुबह गैंगमैनों ने सूचना दी कि देवरी और गोसलपुर के बीच पोल क्रमांक 1015/18 से 1015/23 के बीच खेतों के किनारे से गिट्टी और मिट्टी बह गई है जो कि गोसलपुर से दो किलोमीटर पहले जबलपुर की ओर डाउन ट्रेक की यह घटना है । इस घटना में रेलवे का इलेक्ट्रिक पोल उसके बेस के पास की मिट्टी बह जाने की वजह से झुक गया। घटना की जानकारी मिलते ही मंडल रेल प्रबंधन ने देवरी से गोसलपुर के बीच डाउन ट्रेक पर गाड़ियों की आवाजाही रोक दी। इस वजह से जहां जबलपुर से कटनी की ओर जाने वाली गाड़ियों को कुछ देर के लिए रोकना पड़ा। घटना का पता चलते ही ट्रेक पर सुधार कार्य शुरू कर दिया गया और कटनी की ओर जाने वाली गाड़ियों को देवरी से गोसलपुर के बीच अप ट्रेक से चलाया गया। इस घटना के चलते करीब आधा दर्जन से ज्यादा गाड़ियां प्रभावित हुईं, वहीं आज तीन ट्रेनें रद्द की गईं हैं, जिसमें कटनी-सतना गाड़ी न. 06625, सतना-मानिकपुर गाड़ी न. 06635 एवं मानिकपुर-सतना गाड़ी न. 06636 है। अब स्थिति सामान्य हो गई है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 August 2023

jabalpur, Navy officer,Ordnance Factory Khamaria

जबलपुर। आयुध निर्माणी (आर्डिनेंस फैक्ट्री) खमरिया मे नौसेना के कार्यालय में पदस्थ एक अराजपत्रित अधिकारी को निर्माणी में बना जिंदा बम ले जाते पकड़ा है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, नौसेना के कार्यालय में पदस्थ एक चार्जमैन शुक्रवार को दोपहर में भोजन अवकाश के दौरान कमर में बम छुपा कर ले जा रहा था, तभी गेट पर तैनात सुरक्षा कर्मियों ने उसकी तलाशी ली, जिसमें उसके पास बम बरामद हुआ। सुरक्षा विभाग ने कार्रवाई कर खमरिया प्रबंधन के साथ निर्माणी के अंदर स्थित नौसेना के कार्यालय प्रमुख को भेज दिया है।       जबलपुर के खमरिया में स्थिति आयुध निर्माणी खमरिया देश भर में बड़ी आयुध निर्माणियों में शामिल है। यहां थल सेना, वायु सेना और नौसेना के बमो का भी उत्पादन होता है। इसमें कई घातक बम भी शामिल हैं। इसलिए यह क्षेत्र संवेदनशील है और यहां हर कर्मचारी और आने जाने वालों पर नजर रखी जाती है। फैक्ट्री के अंदर जाने वाले और आने वालों की जांच होती है। फैक्ट्री में पूर्व में भी कई बार इस तरह की घटनाएं सामने आ चुकी हैं जब अंदर का सामान बाहर ले जाते हुए लोगों को पकड़ा जा चुका है। अब सेना के अधिकारी का नाम सामने आने के बाद फैक्ट्री की सुरक्षा को लेकर चिंताएं और बढ़ गई हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 July 2023

bhopal, Goods train derailed , Jabalpur-Itarsi

भोपाल। जबलपुर और इटारसी के बीच शनिवार देर रात मालगाड़ी के गॉर्ड का डिब्बा पटरी से उतर गया। इससे अप ट्रैक पूरी तरह बंद हो गया। इसके चलते कई गाड़ियों को डायवर्ट किया गया, वहीं वंदे भारत और जनशताब्दी समेत कुछ ट्रेनों को री शेड्यूल भी किया गया। रेलवे द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार रविवार सुबह 9.30 बजे के बाद दोनों ट्रैक चालू कर दिए गए हैं।     जबलपुर मंडल के नरसिंहपुर-करेली के बीच अप लाइन पर इटारसी की ओर जा रही मालगाड़ी का गार्ड डिब्बा पटरी से उतरकर पलट गया। इससे जबलपुर से इटारसी जाने वाले अप लाइन पर रेल यातायात पूरी तरह बंद हो गया। घटना शनिवार रात करीब 11.38 बजे की बताई जा रही है। इसके बाद अप ट्रैक पर यातायाता बंद कर दिया गया। घटना की सूचना मिलते ही रेलवे के तमाम वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचे और ट्रैक को ठीक करने का काम शुरू कर दिया गया।     रेल यातायात बंद होने से कुछ ट्रेनों के मार्ग परिवर्तित किए गए। कटनी, दमोह, भोपाल के रास्ते इटारसी भेजा जा रहा है। वहीं, कुछ ट्रेनों को जबलपुर से गोंदिया-नागपुर होकर चलाया जा रहा है। वंदे भारत, ओवर नाइट, नर्मदा एक्सप्रेस, गोदाम एक्सप्रेस को नरसिंहपुर, जबलपुर, श्रीधाम स्टेशन समेत अन्य स्टेशन पर रोका गया। ट्रैक बंद होने के कारण भोपाल जाने वाली वंदे भारत और जनशताब्दी एक्सप्रेस को री शेड्यूल किया गया। भोपाल रेल मंडल के पीआरओ सूबेदारसिंह द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार सुबह करीब 9.30 दोनों ट्रैक चालू कर दिया गए हैं और रेल यातायात सामान्य हो गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 July 2023

jabalpur, Madhai school , heavy rains

जबलपुर। मध्य प्रदेश में इन दिनों भारी बारिश और बाढ़ का प्रकोप देखने काे मिल रहा है। जिसके चलते कई अप्रिय घटनाएं घट रही है। जबलपुर के रांझी थाना क्षेत्र में सोमवार रात तेज बारिश के कारण एक स्कूल की दीवार गिर गई। हादसे में एक महिला चपेट में आ गई। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची रांझी थाना पुलिस ने महिला को अस्पताल में भर्ती कराया है। महिला की गंभीर हालत में ईलाज जारी है।   जानकारी अनुसार सोमवार रात करीब दस बजे रांझी थाना क्षेत्र अंतर्गत मढ़ई स्थित एक स्कूल की दीवार गिर गई। इस दौरान वहां से गुजर रही एक महिला संध्या बाई (23 वर्षीय) दीवार गिरने से चपेट में आ गई और गंभीर रुप से घायल हो गई। थाना प्रभारी सहदेव साहू के मुताबिक देर रात सूचना मिली थी। सूचना पर रांझी थाना पुलिस मौके पर पहुंच गई। महिला को गंभीर हालत में मेडिकल अस्पताल भिजवाया गया है। बताया जा रहा है कि तेज बारिश के कारण स्कूल की दीवार ढही है। जेसीबी की मदद से दीवार के मलबे को हटाया गया। पुलिस मामला दर्ज कर आगे की पड़ताल में जुट गई है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 July 2023

bhopal, FIR , IAS officers

भोपाल। मध्य प्रदेश में आदिवासियों की जमीन बेचने से जुड़े घोटाले में लोकायुक्त पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है। लोकायुक्त ने एक साथ प्रदेश के तीन आईएएस अधिकारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। प्रदेश के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है, जब आदिवासियों की जमीन बेचने की अनुमति देने पर तीन आईएएस अफसरों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। खास बात यह है कि तीनों अफसरों को लोकायुक्त ने अब तक एफआईआर दर्ज करने की सूचना तक नहीं दी है। इसके साथ ही इस मामले में एफआईआर दर्ज कर जांच के लिए लोकायुक्त जबलपुर को भेजा गया है।     लोकायुक्त पुलिस ने जिन तीन वरिष्ठ आईएएस अफसरों पर एफआईआर दर्ज की गई है, उनमें ग्वालियर के कमिश्नर दीपक सिंह, आबकारी आयुक्त ओपी श्रीवास्तव और उप सचिव बसंत कुर्रे शामिल हैं। यह पूरा मामला साल 2007 से 2012 के बीच का है। इस दौरान तीनों आईएएस जबलपुर में बतौर एडीएम तैनात थे। इसी दौरान आदिवासियों की जमीन का फर्जीवाड़ा अंजाम दिया गया था।     आरोप है कि तीनों अफसरों ने कुंडम इलाक में आदिवासियों की जमीन बेचने की अनुमति दे दी थी जबकि मध्य प्रदेश भू-राजस्व संहिता के अनुसार आदिवासियों की जमीन बेचने की अनुमति कलेक्टर द्वारा ही दी जा सकती है। इस मामले में कलेक्टर से शिकायत की गई। शिकायत के आधार पर मौजूदा एडीएम शेर सिंह मीणा ने जांच कर प्रतिवेदन जबलपुर लोकायुक्त को दिया था। इसकी जानकारी के बाद लोकायुक्त ने मामले का संज्ञान लिया था। अब लोकायुक्त ने ही तीनों आईएएस अफसरों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। अब माना जा रहा है कि जल्द ही इन बड़े अफसरों के खिलाफ एक्शन भी हो सकता है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 July 2023

jabalpur, EOW raid , Food Safety Officer

सागर। जिले में पदस्थ खाद्य सुरक्षा विभाग के अधिकारी अमरीश दुबे के आवास पर शुक्रवार सुबह ईओडब्लू ने कार्रवाई की है। इसके साथ ही दुबे के जबलपुर स्थिति आवास पर भी ईओडब्लू की टीम पहुंची है। दोनों जगहों पर दस्तावेजों की जांच की जा रही है। प्रारंभिक जांच में आय से अधिक और अनुपातहीन संपत्ति के प्रमाण मिले हैं।     अमरीश दुबे की खाद्य सुरक्षा विभाग में 2008 में नियुक्ति हुई थी। 2011 में उनको खाद्य सुरक्षा अधिकारी की जिम्मेदारी मिली। वे लंबे समय तक जबलपुर में पदस्थ रहे और वर्तमान में उनकी पोस्टिंग सागर में है। अब तक की जांच में उनके पास आय से 600 प्रतिशत अधिक संपत्ति मिलने की जानकारी सामने आई है। उनके पास जबलपुर में 90 लाख का तीन मंजिला आलीशान मकान, शुगर मिल में 90 लाख के इन्वेस्टमेंट के दस्तावेज, शताब्दीपुरम में 2400 स्क्वायर फीट का 65 लाख कीमत का प्लॉट, नरसिंहपुर में दो प्लॉट और एक बैंक लॉकर की जानकारी मिली है। हालांकि फिलहाल आधिकारिक पुष्टि नहीं हो सकी। ईओाडब्लू के अधिकारियों का कहना है कि विभाग की टीम नरसिंहपुर में भी जांच करेगी तथा बैंक लॉकर भी खोले जाएंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 July 2023

jabalpur, Pickup vehicle ,Hiran river, NDRF did rescue

जबलपुर। मझौली थानान्तर्गत ग्राम गाढ़ा गनियारी में बुधवार की सुबह हिरन नदी के रपटे में तेज बहाव से एक पिकअप वाहन बह गया। घटना की सूचना के बाद मौके पर इंद्राना पुलिस चौकी का दल और एनडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची। पिकअप वाहन में कितने लोग थे, कितने डूबे, अभी इसकी पुष्टि नहीं की जा रही है। फिलहाल पुल के ऊपर से पानी बहने के कारण आवागमन रोक दिया गया है।     पुलिस कंट्रोल रूम प्रभारी ने बताया कि इंद्राना चौकी प्रभारी ऋषभ सिंह बघेल के मुताबिक वाहन पलटने की सूचना सुबह 9 बजे मिली थी। पिकअप वाहन पुल से करीब 80 मीटर दूर तक बह गया था। नदी में डूबे पिकअप वाहन का नंबर MP 34 0814 है। वाहन दमोह निवासी भागीरथ पटेल के नाम पर दर्ज है। पुलिस दमोह के संबंधित थाने से वाहन मालिक की जानकारी जुटा रही है, हालांकि रेस्क्यू के दौरान वाहन में कोई भी व्यक्ति अंदर नहीं मिला है। पिकअप वाहन कौन चला रहा था और कितने लोग सवार थे। इसकी पतासाजी की जा रही है। फिलहाल होमगार्ड और एनडीआरएफ की टीम घटनास्थल पर पहुंचकर बड़ी क्रेन के सहारे पिकअप वाहन को बाहर निकाल लिया है ।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 June 2023

jabalpur,Student injured , BJP leader

जबलपुर। जबलपुर में भाजपा नेता प्रियांश विश्वकर्मा की बंदूक की गोली से घायल हुई एमबीए छात्रा की मौत हो गई है। करीब 10 दिनों तक जिंदगी और मौत की जंग लड़ते हुए घायल छात्रा वेदिका ने सोमवार को उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। वेदिका को आईसीयू में रखा गया था। ऑर्गन फेल होने की वजह से वह वेंटिलेटर पर थी। शव के पोस्टमार्टम के बाद शाम को उसका अंतिम संस्कार किया जाएगा। वहीं अब आरोपित प्रियांश के ऊपर हत्या का केस दर्ज होगा।   चिकित्सकों ने बताया कि वेदिका के अंग धीरे-धीरे काम करना बंद कर रहे थे। वारदात के एक सप्ताह से ज्यादा बीत जाने के बाद भी वेदिका की रीड की हड्डी में फंसी गोली नहीं निकाली जा सकी थी। वेदिका के पेट की एक सर्जरी की गई थी, वहीं फेफड़े से भी गंदा खून निकाला जा चुका था, लेकिन गोली रीड की हड्डी में ही फंसी थी, जिसका आपरेशन जटिल था। लंबे समय से वह वेंटिलेटर पर थी, इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।   इधर, मामले में प्रियांश के खिलाफ संजीवनी नगर थाना पुलिस ने गैर इरादतन हत्या के प्रयास का प्रकरण दर्ज किया था। वारदात के बाद आरोपित नेता ऑफिस में लगे सीसीटीवी कैमरे और पिस्टल लेकर फरार हो गया था। वह गोली मारने के बाद 7 घंटे तक अपनी गाड़ी में लेकर घूमता रहा। बाद में पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है और जेल भेज दिया था। अब युवती की मौत के बाद आरोपी पर गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया जाएगा। घटना के बाद भाजपा ने उससे किनारा कर लिया था।     यह है पूरा मामला मामला जबलपुर के संजीवनी नगर थाना क्षेत्र अंतर्गत धनवंतरी नगर का है। नागरथ चौक निवासी एमबीए स्टूडेंट वेदिका शुक्रवार, 16 जून की दोपहर एक बजे भाजयुमो के रानी दुर्गावती मंडल के पूर्व महामंत्री और बिल्डर प्रियांश विश्वकर्मा के लीला ग्रुप आफ बिल्डर्स एंड डेव्लपर्स के आफिस गई थी। इस दौरान प्रियांश विश्वकर्मा ने अपनी पिस्टल से फायरिंग की थी। इससे गोली युवती वेदिका ठाकुर को लगी। गोली लगने के कारण वह बेहोश हो गई थी। इसके बाद प्रियांश ने ही फोन करके युवती के परिवार वालों को जानकारी दी कि देविका की तबीयत खराब है और उसे अस्पताल में भर्ती करवाने ले जा रहे हैं।प्रियांश पहले उसे स्मार्ट सिटी अस्पताल ले गया था, हालात नहीं सुधरी तो वेदिका को दमोहनाका स्थित निजी अस्पताल ले गया और छोड़कर फरार हो गया था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 June 2023

jabalpur, Priyanka Gandhi ,Aarti in Jabalpur

जबलपुर । कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने सोमवार को जबलपुर प्रवास के दौरान मध्य प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए अपनी पार्टी के प्रचार अभियान की शुरुआत की। जबलपुर पहुंचने पर प्रियंका सबसे पहले नर्मदा घाट पहुंचीं और आरती में हिस्सा लिया, लेकिन इस दौरान उन्होंने एक गलती कर दी, जिस पर भाजपा ने उन पर निशाना साधा है।   दरअसल, नर्मदा आरती के दौरान प्रियंका गांधी वाड्रा के एक तरफ कमल नाथ और दूसरी तरफ विवेक तन्खा खड़े थे। सभी नेता आरती कर रहे थे। प्रियंका ने मां नर्मदा की आरती उतारने के बाद आरती विवेक तन्खा को दी। इस दौरान आरती पूरी नहीं हुई थी, लेकिन प्रियंका ने खुद आरती ले ली। नियमानुसार, आरती पूरी होने के बाद पहले भगवान को आरती दी जाती है, फिर खुद ली जाती है, लेकिन प्रियंका यहां गलती कर गईं।   इसके बाद भाजपा ने इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर करते हुए उन पर निशाना साधा। प्रदेश भाजपा के ट्विटर हैंडल पर लिखा गया कि ‘ढोंग और आस्था में यही फर्क है। प्रियंका गांधी को इतना नहीं पता कि आरती पहले भगवान को दी जाती है, फिर इंसान लेते हैं। इसलिए ही इन्हें चुनावी हिंदू कहा जाता है।’   प्रदेश के गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि प्रियंका गांधी वाड्रा चुनावी हिंदू हैं, जिन्हें चुनाव के समय ही मंदिर, गंगा और नर्मदा मैया की याद आती है। प्रदेश की जनता कांग्रेस के इस पाखंड को अच्छी तरह समझती है। वहीं, भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने इस ट्वीट को रीट्वीट करते हुए कहा कि भगवान से पहले खुद आरती लेना और देश से पहले गांधी परिवार की आरती उतारना, यही इन कांग्रेसियों की पहचान है।   वीडियो पर एक यूजर ने कमेंट लिखा, उन्होंने (प्रियंका वाड्रा) खुद आरती करके आरती ले ली, लेकिन आप जिस तरह से पूर्व मुख्यमंत्री (कमल नाथ) आरती कर रहे हैं, उनको भी देखना चाहिए था। उनको लगता है कि आरती ऐसे की जाती है। आप देखेंगे, नर्मदा नदी के अंदर जो जल प्रभावित हो रहा है, इस जल में कांग्रेस पार्टी जल समाधि लेगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 June 2023

jabalpur, Priyanka promised, five guarantees

जबलपुर। कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि सूबे में कांग्रेस की सरकार बनने पर हम पुरानी पेंशन को लागू करेंगे। रसोई गैस सिलेंडर 500 रुपये में दिया जाएगा। किसानों की जो कर्ज माफी कमल नाथ सरकार के समय प्रारंभ हुई थी, उसे पूर्ण किया जाएगा, यह मेरी गारंटी है। हमने कर्नाटक और हिमाचल प्रदेश में भी जो गारंटी दी थी, उन्हें पूरा किया है। आपके साथ पिछले 18 साल से गलत हो रहा है। आपका शोषण हो रहा है। यहां धन-बल से जनादेश को कुचला जाता है। पिछली बार आपने हमारी सरकार बनाई थी लेकिन जोड़-तोड़ और पैसे से भाजपा हमारी सरकार तोड़ी और अपनी बना ली। प्रदेश में हमारे भी कुछ ऐसे नेता थे, जो सत्ता की वजह से कांग्रेस छोड़कर चले गए।   प्रियंका सोमवार को जबलपुर के शहीद स्मारक मैदान में आम सभा को संबोधित कर रही थीं। दरअसल, कर्नाटक में जीत से उत्साहित कांग्रेस अब मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव की तैयारी में जुट गई है। इसी क्रम में पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा सोमवार को जबलपुर पहुंचीं। उन्होंने यहां ग्वारीघाट पर 101 ब्राह्मणों के साथ मां नर्मदा की पूजा-आरती कर प्रदेश में पार्टी के चुनावी प्रचार अभियान का शंखनाद किया।   उन्होंने अपने भाषण की शुरुआत मां नर्मदा के जयकारे से की। उन्होंने कहा कि हम किसी के जज्बात और आस्था से खिलवाड़ करके राजनीति नहीं करते हैं। उन्होंने शिवराज सरकार पर आरोप लगाया कि यहां पर भ्रष्टाचार और रिश्वतवाद चल रहा है। इन्होंने महाकाल को नहीं छोड़ा। एक पुजारी ने मुझे वीडियो भेजा। हवा से मूर्तियां उड़ रही हैं। यहां 225 से ज्यादा घोटाले हो चुके हैं। ऐसा कोई क्षेत्र नहीं बचा, जहां घोटाला न हुआ हो। यहां तो किसानों के मुआवजा वितरण तक में घोटाला हो गया। बेरोजगारी का आलम यह है कि तीन साल में मात्र 21 लोगों को ही रोजगार मिला है। जब यह बात मुझे पता चली तो मैंने अपने ऑफिस से पुनः परीक्षण करने के लिए कहा, क्योंकि मैं यह मानती हूं कि जो कुछ भी आपसे कहूं, वह गलत नहीं होना चाहिए। तीन बार जांच कराई, तब भी यही बात निकलकर आई कि केवल 21 व्यक्तियों को ही तीन साल में रोजगार मिला है।   प्रियंका ने कहा कि यहां आज महाकौशल की पावन और क्रांतिकारी धरती पर खड़े होकर बहुत गर्व हो रहा है। इस धरती ने क्रांतिदूत पैदा किए हैं। हम उनका आशीर्वाद मांगते हैं। मध्य प्रदेश सिर्फ भारत का केंद्र नहीं, दिल और जान है। संस्कारधानी जबलपुर ने साहित्य, संस्कृति और संस्कार हमें दिए हैं। इसी पर हमारा संविधान बना। ये आधुनिक भारत इन्हीं संस्कारों के आधार पर आगे बढ़ा। उन्होंने कहा कि मैं आपसे वोट मांगने नहीं आई हूं, मैं आपसे जागरूकता मांगने आई हूं। मेरे परिवार के सदस्यों ने इस देश को बनाने के लिए खून दिया है। मैं जानती हूं कि निर्माण में कितना संघर्ष है। जानती हूं कि सत्ता भोगना कितना आसान है। जो मैं देख रही हूं, चाहती हूं आपको भी दिखे। यह हमारे प्रचार की शुरुआत है। आपके पास 6 महीने हैं। इन 6 महीनों में देखिए कांग्रेस की सरकारें अपने प्रदेश में क्या कर रही हैं। अपना वोट अपने लिए डालिए। उन्होंने मंच से नारी सम्मान योजना के आवेदन पत्र अपने हस्ताक्षर से महिलाओं को दिए। चुनाव के समय आपसे वादे किए जाते हैं, लेकिन जो वादा करता है, उसकी खुद की आस्था उसमें नहीं होती है। उनको पूरा करने की कोशिश नहीं होती। आज मैं संस्कारधानी की धरती पर खड़ी होकर आपको पुरानी राजनीति की याद दिलाना चाहती हूं। हमारे नेता जो कहते थे, वो करके दिखाते थे। सबकुछ न्योछावर करके आपके लिए दिन-रात एक करते थे। अब घोषणाएं की जाती हैं। पूरा नहीं किया जाता।   उन्होंने इस मौके पर मतदाताओं को पांच गारंटी दी। उन्होंने कहा कि आज मैं कुछ गारंटी दे रही हूं। वे गारंटी जो हम शत-प्रतिशत पूरा करेंगे। यह मेरा वादा है। यही वादा हमने कर्नाटक में किया। वहां की सरकार ने आते ही बिल पास कर दिया। हर महीने महिलाओं को 1500 रुपये दिए जाएंगे। गैस सिलेंडर 500 रुपये का मिलेगा। 100 यूनिट बिजली फ्री और 200 यूनिट हाफ होगी। मध्य प्रदेश में पुरानी पेंशन योजना लागू करेंगे। किसान कर्जमाफी का काम पूरा करेंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 June 2023

jabalpur, National baseball player, committed suicide

जबलपुर। मध्य प्रदेश के जबलपुर में बेसबॉल की एक राष्ट्रीय स्तर की महिला खिलाड़ी ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस को जांच में कोई भी सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है। फिलहाल, पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।   जानकारी अनुसार सिवनी जिले के धूमा निवासी संजना बरकड़े (20 वर्षीय) बेसबॉल की राष्ट्रीय खिलाड़ी थी। वह जबलपुर में रहकर मानकुंवर बाई कॉलेज में बीए सेकंड ईयर की पढ़ाई कर रही थीं। वह शहर के संजीवनी नगर थाना इलाके के गंगा नगर में अपने माता पिता के साथ रहती थीं। सोमवार देर रात उन्होंने फांसी के फंदे पर लटककर अपनी जान दे दी। घटना की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव का पंचनामा तैयार कर पोस्टमार्टम के लिए मेडिकल कालेज भेज। संजना के आत्महत्या का कारण अज्ञात है। फिलहाल पुलिस मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी है।   पुलिस के मुताबिक, संजना के परिजन शादी में शामिल होने के लिए हर्रई गए हुए थे। इस दौरान घर पर उनकी बेटी संजना अकेली थी और उसने यह खौफनाक कदम उठाया। सोमवार की रात जब वह घर वापस आए और संजना को आवाज दिया। तब काफी देर तक दरवाजा नहीं खुलने पर उन्होंने हाथ डालकर कुंडी खोली तो देखा कि उनकी बेटी संजना पंखे पर लटकी हुई थी। स्थानीय लोगों ने तुरंत पुलिस को सूचना दी। पुलिस का कहना कि संजना के पास से कोई भी सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है। फिलहाल, पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। संजना ने राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता में गुजरात, राजस्थान, देवास, उज्जैन में भाग लिया था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 June 2023

jabalpur, NIA

जबलपुर।मध्य प्रदेश में आतंकी संगठन संगठन हिज्ब-उत- तहरीर (HUT) से जुड़े 16 संदिग्ध आतंकियों की गिरफ्तारी फिर रिमांड और फिर पूरे मामले को राज्य सरकार द्वारा राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) को सौंपे जाने के बाद अब जबलपुर में बड़ी कार्रवाई की जा रही है ।   भारी पुलिस बल के साथ एनआईए की टीम मकसूद कबाड़ी और आहद उल्ला अंसारी के घर पहुंची है और अपनी जरूरी जांच में जुट गई है। ये दोनों ही हिस्ट्रीशीटर अब्दुल रज्जाक के साथी हैं। पुलिस ने बड़ी ओमती क्षेत्र को सील कर दिया है। करीब एक किलोमीटर तक पुलिस की घेरा बंदी है। किसी को भी अंदर और बाहर जाने की इजाजत नहीं दी जा रही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  27 May 2023

jabalpur, Miscreants attacked ,opposing molestation

जबलपुर। जबलपुर में गुरुवार सुबह छेड़छाड़ का विरोध करने पर बदमाशों ने तीन बुजुर्गों पर चाकू और तलवार से हमला कर दिया। घटना के वक्त तीनों बुजुर्ग मॉर्निंग वाक पर निकले थे। वारदात के बाद आरोपी मौके से भाग निकले। सूचना मिलते ही अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संजय अग्रवालऔर संजीवनी नगर थाना पुलिस मौके पर पहुंचे। हमले में घायल तीनों लोगों को मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। पुलिस मामला दर्ज कर आरोपितों की तालश में जुटी है। जानकारी अनुसार शहर के संजीवनी नगर थाना क्षेत्र के गुलौआ तालाब पार्क में रोजाना की तरह गुरुवार सुबह लोग मॉर्निंग वॉक कर रहे थे। इस दौरान दाे लड़के पार्क में घूम रही महिलाओं के साथ छेड़खानी करने लगे। लड़कोंं को ऐसा करते देख वहां मौजूद कुछ लोगों ने उन्हें डांट दिया। इसके बाद दोनों लड़के वहां से चले गए। कुछ देर बाद चार से पांच लड़के हाथों में हथियार लेकर पार्क में आए और डांटने वाले बुजुर्गों पर हमला कर दिया। तलवार और चाकू से हुए हमले में तीन बुजुर्ग घायल हो गये। जिन्हें मेडिकल कालेज में भर्ती करवाया गया है। घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी दीवार कूदकर फरार हों गए। पार्क में तैनात चौकीदार राजेश दुबे इस घटना के प्रत्यक्षदर्शी थे। उसने संजीवनी नगर थाना पुलिस को इस पूरे घटनाक्रम की सूचना दी। वारदात की सूचना मिलते ही अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संजय अग्रवाल, सीएसपी प्रतिष्ठा राठौर, महापौर जगत बहादुर सिंह मौके पर पहुंचे। बताया जा रहा है कि इस घटना में पार्क में टहल रहे अशोक सिंह, राकेश चक्रवर्ती और वीरेंद्र पटेल घायल हुए है, जिनका इलाज मेडिकल कॉलेज में चल रहा है। सीएससी प्रतिष्ठा राठौर के मुताबिक आरोपियों की तलाश की जा रही है, जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा। हालांकि इस पूरे घटनाक्रम को लेकर पुलिस का कहना है कि यह जांच का विषय है कि विवाद छेड़खानी को लेकर हुआ था या फिर कुछ और घटनाक्रम है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 May 2023

jabalpur, drowning , Narmada river

जबलपुर। शहर के तिलवारा थाना क्षेत्र में रविवार को सुबह नर्मदा नदी में दद्दा घाट पर नहाने गए भाजपा नेता के बेटे और उसके दोस्त की डूबने से मौत हो गई। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और गोताखोरों की मदद से दोनों के शव बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेजे। फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी है।     तिलवारा थाना पुलिस के अनुसार, भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष शिव पटेल का इकलौता बेटा अतुल पटेल (24) रविवार सुबह करीब 10.30 बजे अपने 5 से 6 दोस्तों के साथ नर्मदा नदी के दद्दा घाट में नहाने गया था। यहां सभी दोस्त नहा रहे थे। इस दौरान अतुल का एक दोस्त अनुराग लोधी नर्मदा नदी में बहने लगा और गहरे पानी में डूब गया। अतुल पटेल ने उसे बचाने की कोशिश की, लेकिन वह भी नदी में डूब गया। मौके पर मौजूद लोगों की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और गोताखोरों की मदद से कड़ी मशक्कत के बाद दोनों को बाहर निकाला, लेकिन दोनों की मौत हो चुकी थी। पुलिस ने पंचनामा कार्रवाई कर शवों को पोस्टमार्टम के लिए मेडिकल कॉलेज अस्पताल भेज दिया है और मामले की जांच शुरू कर दी। अतुल की मौत की खबर लगते ही बड़ी संख्या में लोग दद्दा घाट पहुंचे। सुरक्षा को देखते हुए भारी पुलिस बल तैनात किया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 May 2023

jabalpur, Congress office , Madhya Pradesh

जबलपुर। मध्य प्रदेश की संस्कारधानी जबलपुर में स्थित कांग्रेस कार्यालय में गुरुवार को तोड़फोड़ के वीडियो सामने आए हैं। भगवा गमछा गले में डाले और हाथों में भगवा ध्वज लिए कई लोग ने कांग्रेस कार्यालय को नुकसान पहुंचाने का प्रयास किया। जबरन दफ्तर में घुसे प्रदर्शनकारियों ने अंदर तोड़फोड़ करने के साथ ही कार्यालय के बाहर लगे कांग्रेस नेता सोनिया गांधी का पोस्टर फाड़ा है। कांग्रेस का आरोप है कि ये सब बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने किया जबकि बजरंग दल का कहना है कि बजरंग दल कभी भी इस तरीके की हरकतें नहीं करता। दरअसल, मामला गुरुवार शाम का है, जब कई बजरंग दल के कार्यकर्ता कर्नाटक चुनाव में कांग्रेस के घोषणा पत्र जिसमें बजरंग दल को सत्ता में आते ही प्रतिबंधित कर देने की बात कही गई है के विरोध में कांग्रेस कार्यालय के पास जाकर अपना विरोध प्रदर्शन करने लगे थे। बजरंग दल पर आरोप लगा है कि वे विरोध करते-करते कांग्रेस कार्यालय के अंदर घुस गए। फिर अंदर हंगामा करने के साथ ही पोस्टर इत्यादि फाड़ना शुरू कर दिया। पुलिस को जैसे ही इसकी सूचना हुई वहां तुरंत पुलिस पहुंची और प्रदर्शनकारियों को वहां से खदेड़ा शुरू कर दिया।   घटना की जानकारी लगते ही कांग्रेस नेता, विधायक और पूर्व मंत्री कार्यालय पर जमा होने लगे। उसके बाद पूर्व मंत्री तरुण भनोट, विधायक विनय सक्सेना, लखन घनघोरिया, महापौर, कांग्रेस अध्यक्ष जगत बहादुर सिंह अन्नू कोतवाली थाने पहुंचे। जहां उन्होंने बजरंग दल की शिकायत दर्ज कराई। अब इस कांग्रेस कार्यालय तोड़फोड़ ने सियासी रंग ले लिया है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने इस हमले की कड़ी शब्दों में निंदा करते हुए प्रदेश की भाजपा सरकार को घेरा है। नेता प्रतिपक्ष डॉ. गोविंद सिंह का कहना है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आतंक फैलाने वालों को संरक्षण देने में लगे हुए हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री पर आरोपितों को संरक्षण देने का आरोप लगाया। वहीं, इसी तरह के आरोप अन्य कई कांग्रेस पदाधिकारियों की ओर से लगाए गए हैं। दूसरी ओर विहिप, बजरंग दल के पदाधिकारियों का कहना है कि कांग्रेस दफ्तर में तोड़फोड़ और हंगामा खुद कांग्रेस के कार्यकर्ताओं द्वारा ही की गई है। बजरंग दल के सुमित ठाकुर का कहना है कि जब बजरंग दल कार्यकर्ता कांग्रेस कार्यालय के बाहर प्रदर्शन करने पहुंचे थे तभी भगवा वेश धरकर कांग्रेस कार्यकर्ता आ गए थे, उन्होंने ही अपने कार्यालय में तोड़फोड़ की है। इनका कहना है कि बजरंग दल इस तरह के कार्य नहीं करता। इस संबंध में एसपी तुषारकांत विद्यार्थी का कहना है कि जो भी आरोपित हैं, वे बख्शे नहीं जाएंगे। आरोपितों की पहचान वीडियो देखकर की जा रही है। सभी पर कानून के हिसाब से कार्रवाई होगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 May 2023

jabalpur, Two arrested , gold

जबलपुर। आरपीएफ और आयकर विभाग ने शनिवार को संयुक्त अभियान चलाकर जबलपुर रेलवे स्टेशन से एक किलो 750 ग्राम सोने के साथ दो लोगों को हिरासत में लिया है। सोने की कीमत 1.25 करोड़ रुपये बताई जा ही है। दोनों जबलपुर के रहने वाले हैं और शक्तिपुंज ट्रेन से कोलकाता से सोना लाकर जबलपुर के सर्राफा व्यापारियों को बेचने की फिराक में थे। फिलहाल उनसे पूछताछ की जा रही है।     जानकारी अनुसार आयकर विभाग के राजस्व अधिकारियों ने शनिवार को गाड़ी संख्या 11448 शक्तिपुंज एक्सप्रेस में गुप्त रूप से कार्रवाई करने के लिए आरपीएफ पोस्ट जबलपुर से संपर्क किया, जिसके बाद दोपहर में शांतिपुंज एक्सप्रेस जब जबलपुर पहुंची तो विभागीय टीम ने ट्रेन की घेराबंदी कर उक्त कार्रवाई को अंजाम दिया।     उप निरीक्षक सुनीता जाट ने आयकर टीम के साथ स्टेशन पर ट्रेन के बी-02 कोच से दो संदिग्ध व्यक्तियों को पकड़ा, जिनके नाम फैज अहमद और जमील अहमद दोनों निवासी जबलपुर हैं। उनके पास से सोना मिला। हिरासत में लिए गए दोनों व्यक्तियों ने स्वीकार किया कि हम लोग हावड़ा से जबलपुर तक उक्त गाड़ी से सोना लेकर आए हैं। उनके कब्जे से लगभग एक किलो 750 ग्राम सोना बरामद हुआ है, जिसकी बाजार के अनुसार कीमत 1.25 करोड़ रुपये है। दोनों व्यक्तियों को आयकर विभाग की राजस्व टीम को अग्रिम कार्रवाई के लिए सौंपा गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 April 2023

bhopal, Bail application, PFI accused

जबलपुर/भोपाल। मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय ने भोपाल के केंद्रीय कारागार में बंद प्रतिबंधित संगठन पीएफआई के अब्दुल रउफ और जमील सहित 19 आरोपितों की जमानत याचिकाएं निरस्त कर दी हैं।     न्यायमूर्ति डीके पालीवाल की एकलपीठ के समक्ष मंगलवार को मामला सुनवाई के लिए लगा था। इस दौरान राज्य शासन की ओर से उप महाधिवक्ता ब्रह्मदत्त सिंह व शासकीय अधिवक्ता प्रदीप गुप्ता ने जमानत अर्जियों का विरोध किया। उन्होंने दलील दी कि प्रतिबंधित संगठन पीएफआई से जुड़े आवेदकों के विरुद्ध एसटीएफ व एटीएस ने जांच के बाद विगत वर्ष अपराध कायम किया था। इन सभी के विरुद्ध देशद्रोह सहित अन्य धाराओं के अंतर्गत अपराध पंजीबद्ध है। मामले की गंभीरता के मद्दनेजर आवेदन निरस्त किए जाने योग्य हैं।     वहीं आवेदकों की ओर से पक्ष रखने दिल्ली से आए वरिष्ठ अधिवक्ता मुजीबुर्रहमान ने दलील दी कि आरोपितों से आवश्यक पूछताछ रिमांड अवधि में की जा चुकी है। वे काफी समय से न्यायिक अभिरक्षा में हैं। लिहाजा, जमानत का लाभ दिया जाना चाहिए। इसके विरोध में राज्य की ओर से साफ किया गया कि आवेदकों का जिस संगठन से नाता रहा है, वह देश के लिए खतरनाक पाए जाने के आधार पर प्रतिबंधित किया गया है। उच्च न्यायालय दोनों पक्षों को सुनने के बाद जमानत देने से इन्कार कर दिया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 April 2023

bhopal,  pandal ,Ladli Bahna Sammelan

भोपाल। मध्य प्रदेश में मौसम का मिजाज पूरी तरह से बदल गया है। यहां अप्रैल के महिने में भीषण गर्मी की बजाय आसमान में बादलों ने डेरा डाल रखा है। राजधानी भोपाल समेत प्रदेश के कई इलाकों में गरज चमक के साथ आंधी तूफान और बूंदाबांदी हो रही है। वहीं जबलपुर में आंधी तूफान के चलते गैरिसन मैदान में आयाेजित लाड़ली बहना सम्मेलन का पंडाल उड़ गया। मौसम खराब होने के चलते यहां होने वाले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के कार्यक्रम को निरस्त कर दिया गया। जबलपुर में दोपहर तीन बजे के बाद धूल भरी आंधी चली, इसके कुछ देर बाद ही तेज बारिश शुरू हो गई। हवा इतनी तेज भी की समाराेह के लिए लगाए गए टेंट हवा में उड़ने लगे। खराब मौसम के कारण लाड़ली बहना कार्यक्रम निरस्त करना पड़ा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को इसमें शामिल होना था। मुख्यमंत्री के लाड़ली बहनों से संवाद कार्यक्रम में आयोजन शुरू होने से पहले अफरातफरी मच गई है। तेज अंधड़ और बूंदाबांदी के बीच लाड़ली बहने पंडाल से बाहर निकलीं। कार्यक्रम स्थल की विद्युत आपूर्ति बंद की गई। बहनों को वापस बसाें में बैठकर घर भिजवाने की तैयारी में प्रशासन जुट गया। इधर छिंदवाड़ा में भी दोपहर में आंधी के साथ बारिश हुई। राजधानी भोपाल में गुरुवार सुबह से बारिश का मौसम बना रहा। बुधवार को रातभर गरज चमक के साथ बारिश के बाद गुरुवार को भी सुबह से हल्की बूंदाबांदी और बारिश हुई। शाम चार बजे से भोपाल में बारिश जारी है। नर्मदापुरम के पिपरिया में भी 10 मिनट तेज पानी गिरा, इसके बाद हल्की बूंदाबांदी होती रही। मौसम वैज्ञानिकों ने गुरुवार को इंदौर, उज्जैन और नर्मदापुरम के जिलों में कहीं-कहीं आंधी, गरज-चमक के साथ हल्की बारिश के आसार जताए हैं। 23 अप्रैल तक मौसम का मिजाज ऐसा ही रहेगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 April 2023

jabalpur,India

जबलपुुर। भारत सनातन काल से है। भारतवर्ष का प्रयोजन अमर है। हर राष्ट्र के अस्तित्व का कुछ न कुछ कारण होता है। सृष्टि के आरम्भ से ही भारत वर्ष का प्रयोजन है। अपना-अपना प्रयोजन प्राप्त करने के बाद सभी की इति हो जाती है। भारत का प्रयोजन राष्ट्र के साथ विश्व कल्याण है इसलिए इसकी इति असंभव है। यह बातें राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत ने मध्य प्रदेश के जबलपुर में मंगलवार को कही। वे ब्रह्मलीन जगद्गुरु श्यामदेवाचार्य की द्वितीय पुण्यतिथि के कार्यक्रम में बोल रहे थे।   डॉ. भागवत ने इस अवसर पर नरसिंह मंदिर में डॉ. श्यामदेवाचार्य के श्रीविग्रह का लोकार्पण किया। उन्होंने कहा कि भारत एकमात्र देश है जिसने भगवान के हर स्वरूप को माना, कभी भी किसी भगवान के स्वरूप को लेकर लड़ाई नहीं की। एकमात्र भारत है जो सारी दुनिया को एक मानता है। सनातन संस्कृति सबको जोड़ती है। सनातन धर्म के आधार पर सारा विश्व चल रहा है। सत्य पर आधारित आचरण के कारण ही भारत आज भी जीवंत है। भाषा, धर्म, पंथ संप्रदाय के नाम पर देश बने, लेकिन भारत के साथ ऐसा नहीं रहा।   उन्होंने कहा कि वैभव के शिखर पर जाकर भी जब भारत को संतोष नहीं मिला तो उसने अपने अंदर देखना शुरू किया। अंततः उसे फिर वो मिला जिसे सत्य और अनंत आनंद कहा जाता है। यह ज्ञान मिला कि सभी एक ईश्वर की चराचर रचना हैं इसलिए कोई अलग नहीं है। भारत वर्ष के संतों ने सोचा कि यह जो हमें ज्ञान मिला है, वह सभी को मिलना चाहिए। तब उन्होंने धर्म की धारणा करते हुए इसकी स्थापना की, इसलिए इसे धर्म कहा गया।   डॉ. भागवत ने कहा कि हर चार वर्ष बाद एक नई परंपरा आती है, जिसमें अलग-अलग बातें होती हैं। भारत ही है जो यह बताता है कि सभी एक हैं। आज भारत जीवंत है। इस कारण से विश्व के कोने-कोने की परापंराएं भारत में अपने आप को सुरक्षित पाती हैं। यह भावना एवं दृष्टि हमारे हिन्दू, सनातन धर्म से मिली है, जिसमें सर्व कल्याण का भाव है।   उन्होंने कहा कि परंपरा के आधार पर यह कहा जा सकता है कि अपना-अपना प्रयोजन पूरा करने के बाद वह राष्ट्र अंतर्धान हो जाता है, लेकिन भारतवर्ष का प्रयोजन अमर है, उसके होने के स्वर अलग हैं, इसलिए भारत वर्ष ऐसा है। भारत के अतिरिक्त सभी राष्ट्रों में यह चिंता बनी रहती है कि हमको जीना है, हमको मरना नहीं है। वैसे भी मनुष्य दुर्बल जीव है। एक छोटा सा मच्छर भी हमें परेशान करता है। दुर्बल होने के कारण ही मनुष्य ने मिलकर रहने में अपना हित समझा। इसलिए उसने समूह बनाया, जिसे कबीला कहा जाता है। कबिले में रहने से शत्रु डरता है। मनुष्य सबसे दुर्बल है, यह सच है लेकिन भगवान ने उसे तेज बुद्धि दी, इसलिए सब प्राणियों का वह राजा बन गया। कबीले लड़ते थे, रक्तपात होता था इसलिए राजा बना दिया गया। हम सभी को मिलकर रहना चाहिए, जिससे ताकत बढ़ती है।   महापुरुष को होता है भगवान का साक्षात्कार डॉ. भागवत ने कहा कि भगवान का साक्षात्कार महापुरुष को होता है। संतों के उपदेशों को ग्रहण करते हुए हम सब धर्म के मार्ग पर चलें। श्यामदेवाचार्य जैसी हस्तियां जाने के बाद भी पार्थिव रूप में हमारे साथ रहती हैं। तब ये संभव होता है कि आज हम ही क्या, सारी दुनिया कह रही है कि भारत होने वाली महाशक्ति है। शक्ति के बिना भगवान शिव भी शव हैं, लेकिन हमारी शक्ति दुर्बलों की रक्षा करेगी। डॉ. भागवत ने कहा कि हम सभी को पर्यावरण संरक्षण के लिए एक मत होना चाहिए। सनातन धर्म ही हिंदू राष्ट्र, हिंदू संस्कृति है। भारत विश्व गुरु बनने जा रहा है और हमें यह बनना ही है। सनातन धर्म के अनुसार अपने जीवन के तरीके को खड़ा करो। उल्लेखनीय है कि डॉ. भागवत ने नरसिंह मंदिर परिसर में ब्रह्मलीन जगद्गुरु श्यामादेवाचार्य की प्रतिमा का अनावरण करने के बाद साधु संतों का आशीर्वाद लिया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 April 2023

jabalpur, Former Bishop ,PC Singh arrested

जबलपुर। शहर के चर्चित मनी लॉन्ड्रिंग मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की टीम ने गुरुवार अलसुबह जबलपुर में दबिश देकर पूर्व बिशप पीसी सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। यह कार्रवाई बीते महीने बिशप के जबलपुर स्थित घर और दफ्तर पर छापामार कार्रवाई के दौरान जब्त किए दस्तावेजों से मिले सबूतों के आधार पर की गई है। ईडी ने पूर्व बिशप पीसी सिंह के खिलाफ ईडी ने मनी लान्ड्रिंग का केस दर्ज किया है और टीम उन्हें लेकर भोपाल रवाना हो गई है।     उल्लेखनीय है कि करीब सात महीने पहले बर्खास्त बिशप पीसी सिंह के घर में आठ सितम्बर को आर्थिक अपराध अन्वेषण ब्यूरो (ईओडब्ल्यू) की टीम ने छापा मार कार्रवाई की थी। वहां से एक करोड़ 65 लाख 14 हजार रुपये नकद, 118 पाउण्ड, 18 हजार 352 यूएस डालर, 80 लाख 72 हजार रुपए कीमत के दो किलो वजनी सोने के जेवरात समेत 17 संपत्तियों के दस्तावेज और 48 बैंक खातों के सम्बंधित दस्तावेज जब्त किए थे। बिशप पीसी सिंह जर्मनी से 11 सितम्बर को वापस भारत लौटा, तो उसे ईओडब्ल्यू की टीम ने नागपुर एयरपोर्ट से गिरफ्तार कर लिया था। जांच के दौरान जहां उसकी पौने आठ करोड़ रुपये की एफडी का खुलासा हुआ, वहीं यह भी पता चला कि वह स्वयं 128 बैंक खाते आपरेट करता था। इसके अलावा 46 खाते उसके परिजनों और संस्थाओं के नाम पर थे।     पीसी सिंह के खिलाफ लगभग 99 मामले हैं, जिनमें उत्तरप्रदेश, राजस्थान, पंजाब, छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश में धोखाधड़ी के 35 मामले दर्ज हैं। आरोप है कि पीसी सिंह ने 'द बोर्ड ऑफ एजुकेशन चर्च ऑफ नार्थ इंडिया जबलपुर डायोसिस' में चेयरमैन रहते हुए संस्था की जबलपुर सहित देश के अलग-अलग शहरों में स्थित चर्च की जमीन को खुद के फायदे के लिए बेचा है। यह आरोप भी है कि सोसायटी को मिली विदेशी फंडिंग का इस्तेमाल खुद के नाम पर जमीन खरीदने में किया। इन्हीं शिकायतों की शुरुआती जांच के बाद ईडी ने उन्हें गिरफ्तार किया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 April 2023

कटर मशीन से शेयर ट्रेडर की हत्या

हत्या के ऐसे मामले जो रूह कंपा दें, जबलपुर में एक ऐसी ही हत्या को अंजाम दिया है। आरोपियों ने  शेयर ट्रेडर की हत्या करके उसके शव को हैंड कटर मशीन से 8 टुकड़े कर दिए।फिर उसके शव के हर एक जबलपुर में शेयर ट्रेडर की हत्या कर हैंड कटर मशीन से शव के 8 टुकड़े कर दिए गए। आरोपियों ने हर एक टुकड़े को पन्नी में पैक किया और इन्हें तीन बोरियों में भरकर नाले में फेंक आए। रविवार दोपहर पुलिस ने 7 टुकड़े बरामद कर लिए। पैर के चार टुकड़े, दो हाथ और सिर बरामद हुए हैं। छाती से पेट तक का हिस्सा नहीं मिला है। शेयर ट्रेडर 52 दिन से लापता था।पुलिस ने गिरफ्तार किए गए आरोपी की निशानदेही पर ही नाले से टुकड़े बरामद किए। पुलिस पूछताछ में उसने बताया कि मुख्य आरोपी लकड़ी टाल का मालिक है। वह शेयर ट्रेडर की हत्या करने के बाद 1 मार्च को फांसी लगा चुका है। शेयर ट्रेडर और टाल मालिक के बीच पैसों को लेकर झगड़ा हुआ था।पुलिस के मुताबिक आरोपी ने पूछताछ में बताया कि टाल मालिक विनोद वर्मा उर्फ टोनी और शेयर ट्रेडर अनुपम शर्मा अच्छे दोस्त थे। आरोपियों ने अनुपम की हत्या पूरा प्लान बनाकर की थी। लेकिन, जब टाल मालिक को लगा कि पुलिस को उस पर शक हो गया है, तो उसने फांसी लगा ली।अनुपम शर्मा (45) गाडरवारा (नरसिंहपुर) का रहने वाला था। पत्नी से मनमुटाव के कारण 4 साल से जबलपुर में अकेला रह रहा था। 1 साल पहले ही शहर के धनवंतरी नगर में जसूजा सिटी फेस-1 में मकान लिया था। उसका एक बेटा भी है। 16 फरवरी को वह लापता हो गया। परिवार को पता लगा तो तलाश शुरू की। 26 फरवरी को संजीवनी नगर थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई।जबलपुर एसपी टीके विद्यार्थी ने घटना का खुलासा करते हुए बताया, जांच में पाया गया कि अनुपम अंतिम बार उसके सबसे करीबी दोस्त विनोद वर्मा उर्फ टोनी के घर के पास दिखा था। टोनी से पूछताछ की तो उसने बताया कि अनुपम दोपहर में मिलकर चला गया था। 16 फरवरी को ही अनुपम के मोबाइल नंबर से उसके पिता को मैसेज आना चालू हो गए थे कि मैं जीवन में की गई गलतियों के सुधार के लिए अध्यात्म के रास्ते पर चलने आश्रम आ गया हूं। मौन व्रत रखने से आगे संपर्क नहीं रख पाउंगा। 25 फरवरी को अनुपम के मोबाइल नंबर से इस तरह का अंतिम मैसेज नासिक से भेजा गया था।पुलिस जांच में सामने आया कि अनुपम ने लाखों रुपए टोनी के जरिए से लोगों को उधार दे रखे थे। अनुपम इसी वसूली के लिए टोनी पर दबाव डाल रहा था। अपनी गैरमौजूदगी में अनुपम का अपने घर आना भी टोनी को पसंद नहीं था। वह उस पर शक करता था। इस बीच टोनी भी अनुपम को तलाश करने का नाटक करता रहा। पुलिस ने जांच आगे बढ़ाई तो पता चला कि अनुपम के मोबाइल से नासिक से मैसेज राम प्रकाश पुनिया ने भेजा है। राम प्रकाश टोनी का किराएदार है। राम प्रकाश ने पूछताछ में बताया कि 24 फरवरी को वह मुंबई जा रहा था। टोनी ने मोबाइल देकर कहा था कि ट्रेन जब नासिक पहुंचे तो मोबाइल ऑन कर कुछ देर बाद बंद कर देना। इसके बाद इसे ट्रेन में छोड़ देना। टोनी ने उससे कहा था कि वह अपने एक दोस्त के साथ मजाक कर रहा है।क्राइम ब्रांच ने टोनी के घर और लकड़ी की टाल के आसपास सीसीटीवी चेक किए तो राम प्रकाश पुनिया के बयान को गलत पाया गया। पूछताछ में उसने 16 फरवरी की सुबह मुंबई से जबलपुर आना बताया था। लेकिन, सीसीटीवी फुटेज में वह 15 फरवरी और 16 फरवरी की दोपहर 3 बजे से शाम 7 बजे तक घर के बाहर दिखा। यह वही समय था जब अनुपम टोनी के घर आया था। घटना के बाद सीसीटीवी में अनुपम का स्कूटर भी जो व्यक्ति ले जाते दिखा, उसकी कद-काठी पुनिया से मेल खाती दिखी। इन पॉइंट्स पर पुनिया से जब सख्ती की गई, तो वह टूट गया। उसने टोनी के साथ मिलकर अनुपम की हत्या करना स्वीकार किया। उसने पुलिस को बताया कि उधार की रकम वापस नहीं ले पाने और किराया नहीं दे पाने पर वह टोनी के साथ अनुपम की हत्या में शामिल हुआ।टोनी ने 16 फरवरी की दोपहर अनुपम को पैसे के लेनदेन का निपटारा करने फोन कर बुलाया था। राम प्रकाश पुनिया को टोनी ने उसके भाइयों की लकड़ी की टाल पर पहले ही भेज दिया था। राम प्रकाश ने रस्सी से अनुपम का गला घोंटा। टोनी, अनुपम के हाथ-पैर पकड़े रहा। अनुपम के शव को टोनी ने लकड़ी काटने वाले हैंड कटर से काटा। हर टुकड़े को पॉलिथीन में पैक किया और तीन बोरियों में भर दिया। हत्या के बाद प्लानिंग के मुताबिक, पुनिया ने अनुपम के कपड़े पहने। CCTV में दिखाने के लिए अनुपम का स्कूटर लेकर अनुपम के घर के रास्ते की तरफ चला। अनुपम के घर से पहले मेडिकल कॉलेज के पास स्कूटर खड़ा कर तिलवारा घाट पहुंचा। यहां टोनी आ चुका था। यहां से ही उसने अनुपम के मोबाइल नंबर से उसके पिता को मैसेज भेजे थे। दूसरे दिन 17 फरवरी को भी उसने अनुपम के पिता को मैसेज किए।टोनी ने राम प्रकाश की मदद से अलग-अलग बोरी नाले में फेंकी। बोरियां डूब जाएं, इसके लिए इनमें लोहे के टुकड़े बांध दिए थे। पुलिस का शक बढ़ने पर टोनी ने राम प्रकाश को नासिक भेजकर अनुपम के मोबाइल नंबर से उसके पिता को मैसेज करवाए। यह बात खुलने पर उसने आत्महत्या कर ली।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 April 2023

jabalpur, Explosion , Ordnance Factory Khamaria

जबलपुर। आर्डनेंस फैक्ट्री खमरिया में बीती रात करीब साढ़े दस बजे भरण अनुभाग-9 में डेटोनेटर फटने से दो लोग घायल हो गए। हालांकि प्रबंधन की ओर से एक के घायल होने की पुष्टि की गई है, लेकिन श्रमिक नेताओं ने दो लोगों के घायल होने की बात कही है। दोनों घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। प्राप्त जानकारी के अुनसार ऑर्डनेंस फैक्ट्री खमरिया के भरण अनुभाग क्रमांक 9 के बिल्डिंग नंबर 130 के कमरा नंबर दो में मंगलवार की रात करीब साढ़े दस बजे एक डेटोनेटर में विस्फोट हो गया। प्राथमिक तौर पर बारूद में रगड़ लगने को इस घटना की वजह बताया जा रहा है। इस घटना में वहां काम कर रहे रोहित राजभर नामक वर्क्स मैन और दुर्गेश बगारे नामक चार्जमैन घायल हो गये। हादसे की सूचना मिलते ही निर्माणी के महाप्रबंधक अशोक कुमार भी भरण अनुभाग क्रमांक नौ स्थित घटनास्थल पर पहुंच गए। उन्होंने घायल कर्मचारियों को अपनी ही कार से ओएफके अस्पताल पहुंचवाया। यहां से गंभीर रूप से घायल रोहित राजभर को महाकोशल अस्पताल रेफर कर दिया गया। रोहित के सीने, चेहरे और हाथ में चोटें आने की बात कही जा रही है। जबकि आंशिक रूप से घायल चार्जमैन दुर्गेश पगारे को ओएफके अस्पताल से छुटटी दे दी गई।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  15 March 2023

bhopal, ED raids , PC Singh

जबलपुर/भोपाल। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की टीम ने जबलपुर में पूर्व बिशप पीसी सिंह के घर सहिंत ईसाई मिशनरीज के ठिकानों पर बुधवार को दबिश देकर छापामार कार्रवाई शुरू की है। इसमें सीएनआई फंडिग के खुलासे की उम्मीद जताई गई है। ईडी की टीम ने दोपहर 12.00 बजे के लगभग जबलपुर के अलावा नागपुर में भी ईसाई मिशनरी के ठिकानों पर दबिश दी है। जमीनों के हेरफेर सहित कई मामलों की जांच की जा रही है।     जानकारी के अनुसार जबलपुर स्थित सीएनआई के पूर्व माडरेटर बिशप पीसी सिंह और उनके राजदार सुरेश जेकब के ठिकानों पर ईडी की टीम पहुंची है और जांच कर रही है। इससे पहले पीसी सिंह पर ईडी ने हवाला समेत फेमा के तहत प्रकरण दर्ज किया था। वहीं मतांतरण में राशि का दुरुपयोग का अंदेशा भी जताया जा रहा है। पूर्व में ईओडब्ल्यू की कार्रवाई में पूर्व विशप के घर विदेशी मुद्राएं मिली थीं, जिससे विदेशी फंडिंग की संभावना थी। इसके साथ ही पूर्व में पीसी सिंह के घर से एक करोड़ 65 लाख रुपये की नकदी और 174 बैंक खातों का भी खुलासा हुआ था। ईडी की टीम दस्तावेज सहित कई मामले खंगाल रही है और यह कार्रवाई जारी है। जिससे ईसाई मिशनरी में हड़कंप मचा हुआ है।     पीसी सिंह पर मिशनरी स्कूलों में गलत तरीक से राशि और पद का दुरुपयोग करने का आरोप था। इसके साथ ही विदेशी फंडिंग, मतांतरण का भी आरोप था। आर्थिक अन्वेषण ब्यूरो (ईओडब्ल्यू) द्वारा कार्रवाई के बाद मामला दर्ज किया गया था और पीसी सिंह को विगत वर्ष 33 महीने तक जबलपुर की जेल में था। जिसके बाद वह जमानत पर बाहर हैं, लेकिन इसके बाद से ही प्रवर्तन निदेशालय ने (ईड़ी) ने भी केंद्रीय स्तर से इसकी जांच शुरू कर दी है। पीसी सिंह पर छात्रों के तीन करोड़ रुपये के गबन के आरोप भी हैं। इसके साथ ही चर्च की जमीन घोटाले के भी आरोप हैं, जिसकी भी जांच चल रही है। ईडी की टीम अब इन सभी मामलों की तह तक जाने के लिए पूर्व बिशप पीसी सिंह के घर और कार्यालय में छापामार कार्रवाई कर रही है। इसके अलावा उसके राजदार सुरेश जैकब के नेपियर टाउन स्थित घर भी टीम पहुंची है।     जिस समय ईडी ने छापा मारा, उस समय पूर्व बिशप पीसी सिंह सो रहे थे। इसके बाद टीम ने पीसी सिंह के ऑफिस को भी खंगाला। साथ ही सुरेश जैकब के घर भी पहुंची, जहां कई अहम जानकारियां ईडी के हाथ लगी हैं। ईडी की यह कार्रवाई देर शाम तक जारी रह सकती है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  15 March 2023

jabalpur, Speeding truck, crushed bike rider

जबलपुर। नागपुर-रीवा हाईवे पर सोमवार सुबह एक तेज रफ्तार ट्रक ने बाइक सवार पिता-पुत्र को रौंद दिया। हादसे में पिता और पुत्र दोनों की मौत हो गई। पुलिस ने ट्रक को जब्त कर प्रकरण दर्ज कर लिया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार नागपुर-रीवा हाईवे पर माढ़ोताल क्षेत्र में एक तेज रफ्तार ट्रक ने बाइक सवार पिता-पुत्र को रौंद दिया। घटना के बाद ट्रक रुका नहीं, बल्कि 100 मीटर तक बाइक सवारों को घसीटता हुआ ले गया। इससे दोनों की घटना स्थल पर ही मौत हो गई। बताया जाता है कि पिता सुरेश अपने बेटे अभि को स्कूल छोड़ने बाइक से जा रहे थे। इसी दौरान यह हादसा हो गया। सूचना मिलने पर माढोताल थाना पुलिस मौके पर पहुंची और ट्रक को जब्त कर मृतक के परिजनों को सूचना दी। पुलिस हादसे की जांच कर रही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 February 2023

jabalpur, Reader , cooperative department

जबलपुर। जबलपुर लोकायुक्त पुलिस ने बड़ी कार्यवाई को अंजाम देते हुए सोमवार को सहकारिता विभाग में पदस्थ रीडर को 20 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। आरोपित रीडर ने कार्यभार के विभाजन के एवज में रिश्वत मांगी थी। कोर्ट के आदेश के बाद भी पीडि़त को पदभार नहीं दिया जा रहा था। जिसकी शिकायत लोकायुक्त से की गई। जिस पर लोकायुक्त ने कार्रवाई को अंजाम दिया।   लोकायुक्त पुलिस के अनुसार सिविक सेंटर स्थित सहकारिता कार्यालय में पदस्थ रीडर राकेश कोरी को 20 हजार की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया। रिश्वतखोर रीडर ने सुरेश कुमार सोनी से सहायक समिति प्रबंधक का आदेश जारी करने को लेकर बीस हजार रुपये की मांग की थी। शिकायतकर्ता सुरेश कुमार सोनी ने लोकायुक्त पुलिस को शिकायत की थी, जिसमें उन्होंने बताया था कि सहायक समिति प्रबंधक के पद पर उससे कनिष्ठ अधिकारी की नियुक्ति कर दी गई है। इसको लेकर वह न्यायालय की शरण में गये थे। कोर्ट के आदेश के बाद भी पीडि़त को पदभार नहीं दिया जा रहा था। इस संबंध में जब वह कार्यालय में पदस्थ रीडर राकेश कोरी से मिला तो उसने आदेश जारी करने के लिए बीस हजार रुपये रिश्वत की मांग की। जिसकी शिकायत पीडि़त ने लोकायुक्त को की। शिकायत सही पाये जाने पर लोकायुक्त ने रीडर को रंगे हाथों गिरफ्तार करने की योजना बनाई। इसी आधार पर शिकायतकर्ता आज सोमवार को रिश्वत के पैसे लेकर कार्यालय पहुंचा था। जैसे ही रीडर को रिश्वत की रकम दिए गए। उसी वक्त लोकायुक्त ने उसे दबोच लिया। लोकायुक्त ने पैसे भी जब्त कर लिए। रीडर को मौके पर ही जमानत दे दी गई।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 February 2023

पीड़िता

जबलपुर पुलिस को शहर के सिविक सेंटर के पास सड़क किनारे कार खड़ी मिली। आगे-पीछे नंबर प्लेट नहीं थी। पता चला कार यहां 11 जनवरी से खड़ी है। पुलिस कार को लावारिस मानकर ओमती थाने ले आई। 31 जनवरी को ही एक महिला कार के डॉक्यूमेंट्स के साथ थाने में हाजिर हो जाती है। वो दावा करती है कि वह कार उसी की है।पुलिस ने उसी की मौजूदगी में जब कार की तलाशी ली, तो इसमें से 7.65 MM के चार कारतूस के अलावा 7 चले हुए कारतूस भी बरामद हुए। पुलिस तुरंत महिला को हिरासत में ले लेती है। महिला के खिलाफ 25 आर्म्स एक्ट में कार्रवाई की जाती है। हालांकि, बाद में थाने से ही उसे जमानत दे दी गई।दो दिन बाद यही महिला SP ऑफिस पहुंचकर पुलिस की मुश्किलें बढ़ा देती है। ASP गोपाल खंडेल से शिकायत करते हुए महिला ने जो बताया उससे ओमती पुलिस की कार्रवाई पर सवाल खड़े हो गए। वो कहती है कि भाजपा नेता भगत सिंह कुशवाहा उसकी हत्या के इरादे से उसका पीछा कर रहा था, इसीलिए उसके डर से वह सिविक सेंटर पर अपनी कार छोड़कर चली गई थी। जल्दबाजी में कार का कांच खुला रह गया। इसके बाद उसे फंसाने के लिए कार में कारतूस डाल दिए गए।बात मार्च 2022 की है। तब भाजपा नेता भगत सिंह कुशवाहा भारतीय जनता पार्टी पिछड़ा वर्ग (OBC) मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष हुआ करते थे। उन्हें पार्टी के कहने पर इस्तीफा देना पड़ा। इसके पीछे वजह यही कार वाली महिला ही है। महिला और भगत सिंह कुशवाहा के कुछ फोटो सामने आए थे। फोटो गोवा के बताए गए। BJP संगठन तक ये फोटो पहुंचे तो कुशवाहा से इस्तीफा मांग लिया गया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 February 2023

jjabalpur, fire broke out ,mattress making factory

जबलपुर। हनुमानताल थाना क्षेत्र में मुस्लिम बहुल मक्का नगर में मंगलवार सुबह एक गद्दा बनाने के कारखाने में भीषण आग लग गई। सूचना मिलने पर दमकल की गाड़ियां मौके पर पहुंची और कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। इस हादसे में मां-बेटी की जिंदा जलने से मौत हो गई। दमकल विभाग के कर्मचारियों ने कुछ लोगों को सुरक्षित निकाल लिया है। सूचना मिलने पर पुलिस भी मौके पर पहुंची और शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर मामले की जांच शुरू की।     प्रारंभिक जानकारी के अनुसार, मक्का नगर हनुमानताल गली नंबर सात में असलम मंजूरी के मकान में गद्दे बनाने का काम किया जाता था। यहां मंगलवार को सुबह करीब 11 बजे अचानक आग लग गई और देखते ही देखते आग तेजी से फैली और पूरे मकान को अपनी चपेट में ले लिया। इसके बाद आसपास के लोग मौके पर इकट्ठे हो गए और अपने स्तर पर आग बुझाने का प्रयास किया। नगर निगम के दमकल विभाग के मुताबिक आग लगने की सूचना मिलने पर तुरंत तीन दमकल वाहन रवाना किए गए। इसके बाद दो वाहन और भेजे गए और पांच फायर ब्रिगेड की मदद से करीब दो घंटे में आग पर काबू पाया। आग लगने से मकान में 25 वर्षीय नगीना और उसकी 6 वर्षीय बेटी हिना मौजूद थी। दोनों आग की लपटों में गिर गई और बुरी तरह से झुलस गई। देखते ही देखते आग ने उन्हें अपनी चपेट में ले लिया और जलने से दोनों की मौके पर ही मौत हो गई।     बताया जा रहा है कि मृतका के पति ने रजाई गद्दे का कारखाना घर की पहली मंजिल पर बना रखा था, जिससे आग तेजी से फैली और आपकी लपटों में पूरा घर गिर गया। रास्ता संकरा होने से आग पर काबू करने में परेशानी हुई। दमकल विभाग के मुताबिक, आग लगने की वजह सर्किट बताई जा रही है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी है। घर में आग कैसे लगी, इसकी जांच की जा रही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 January 2023

गाय की पूजा के बाद रोटी खिलाते कमलनाथ

कमलनाथ ने बीजेपी पर जमकर हमला बोला। उन्होंने भाजपा की प्रस्तावित विकास यात्रा को फ्रॉड यात्रा बताया। उन्होंने कहा कि शिवराज सरकार को चुनाव के 7 महीने पहले महाकौशल की याद आने लगी है। यह चुनावी नाटक नौटंकी है। चुनाव के 7 महीने पहले जनता का ध्यान मोड़ने की राजनीति की जा रही है और जनता को गुमराह किया जा रहा है।कमलनाथ बरगी विधानसभा क्षेत्र के सगड़ा झपनी गांव पहुंचे थे। यहां उन्होंने मां नर्मदा के नादिया घाट पर पूजा की। इस दौरान मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि बीजेपी ने कोई धर्म का ठेका नहीं लिया है। हम अपनी धार्मिक भावनाओं को सियासी मुद्दा नहीं बनाते हैं। भाजपा धर्म के आधार पर राजनीति करती हैं। उन्होंने कहा ये हमारी अंदरूनी भावना है। हम धर्म की पब्लिसिटी नहीं करते हैं।कमलनाथ ने कहा- मैंने देश का सबसे बड़ा हनुमान मंदिर बनाया। यह मैंने अपनी भावना से बनाया है। सबकी अपनी भावनाएं होती हैं। मैंने भोपाल में भी पूजा की है। मुझे जबलपुर में नर्मदा नदी का पूजन अर्चन करने का सौभाग्य मिला।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 January 2023

कमलनाथ ने गाय की पूजा और पूड़ी खिलाई

  कमलनाथ चुनावी रण में कूद चुकें है,जगह - जगह जाकर जनता से मिल रहे है। कमलनाथ बरगी विधानसभा क्षेत्र के सगड़ा झपनी गांव पहुंचे थे। यहां उन्होंने मां नर्मदा के नादिया घाट पर पूजा की। इस दौरान मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि बीजेपी ने कोई धर्म का ठेका नहीं लिया है। हम अपनी धार्मिक भावनाओं को सियासी मुद्दा नहीं बनाते हैं। भाजपा धर्म के आधार पर राजनीति करती हैं। उन्होंने कहा ये हमारी अंदरूनी भावना है। हम धर्म की पब्लिसिटी नहीं करते हैं।कमलनाथ ने कहा- मैंने देश का सबसे बड़ा हनुमान मंदिर बनाया। यह मैंने अपनी भावना से बनाया है। सबकी अपनी भावनाएं होती हैं। मैंने भोपाल में भी पूजा की है। मुझे जबलपुर में नर्मदा नदी का पूजन अर्चन करने का सौभाग्य मिला।  कमलनाथ ने बीजेपी पर जमकर हमला बोला। उन्होंने भाजपा की प्रस्तावित विकास यात्रा को फ्रॉड यात्रा बताया। उन्होंने कहा कि शिवराज सरकार को चुनाव के 7 महीने पहले महाकौशल की याद आने लगी है। यह चुनावी नाटक नौटंकी है। चुनाव के 7 महीने पहले जनता का ध्यान मोड़ने की राजनीति की जा रही है और जनता को गुमराह किया जा रहा है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 January 2023

Jabalpur, Blast , Khamaria Ordnance Factory

जबलपुर। शहर के खमरिया स्थित आयुध निर्माणी (आर्डनेंस फैक्ट्री) में बुधवार को धमाका हो गया। यह हादसा निर्माणी के एफ-2 सेक्शन की बिल्डिंग नंबर 967 में पायलेट प्रेस मशीन पर काम के दौरान हुआ। प्रबंधन ने इसकी पुष्टि करते हुए जानकारी दी है कि घटना में कोई जनहानि नहीं हुई है। सभी कर्मचारी सुरक्षित हैं।   जानकारी के अनुसार, आयुध निर्माणी में बुधवार सुबह करीब 11 बजे हाल ही में लगाई गई पायलेट प्रेस मशीन पर काम चल रहा था, जहां अचानक विस्फोट हो गया। जोरदार धमाके से मशीन के ऊपरी हिस्से के परखच्चे उड़ गए और बिल्डिंग को भी खासा नुकसान पहुंचा, लेकिन गनीमत रही कि इस घटना में किसी भी श्रमिक को किसी प्रकार का नुकसान नहीं पहुंचा। बताया जाता है कि जैसे ही यह धमाका हुआ, इसकी आवाज सुनकर निर्माणी में भगदड़ मच गई। सायरन की आवाज सुनकर सभी लोग तत्काल घटनास्थल की ओर भागे। फायर ब्रिगेड भी मौके पर पहुंच गई और आग पर काबू पाया।   निर्माणी के प्रशासनिक अधिकारी एवं पीआरओ एनडी तिवारी ने बताया कि एफ-2 सेक्शन की बिल्डिंग नंबर 967 में प्रेस मशीन से अचानक फायर हुआ, जिसे फायर बिग्रेड एवं इलेक्ट्रिकल के कर्मचारियों ने त्वरित प्रयास कर काबू में कर लिया। घटना में किसी भी प्रकार की जान-माल का कोई नुकसान नहीं हुआ। घटना के कारणों की जांच की जा रही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 January 2023

jabalpur, Madhya Pradesh, High Court ,Raja Patria

जबलपुर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को लेकर अभद्र टिप्पणी के मामले में गिरफ्तार कांग्रेस नेता और राज्य के पूर्व मंत्री राजा पटेरिया की जमानत अर्जी मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय ने भी खारिज कर दी है। इससे पहले पवई की तहसील कोर्ट ने भी उन्हें जमानत देने से इनकार कर दिया था। इसके बाद उन्होंने उच्च न्यायालय की शरण ली थी।   दरअसल, पूर्व मंत्री राजा पटेरिया ने पिछले महीने एक कार्यक्रम में कांग्रेस कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा था कि प्रधानमंत्री के बारे में विवादास्पद टिप्पणी ''संविधान बचाने के लिए मोदी को मारने के लिए तैयार रहो। मोदी चुनाव खत्म कर देंगे। मोदी धर्म, जाति और भाषा के आधार पर बांटेंगे। दलितों, आदिवासियों और अल्पसंख्यकों का भविष्य खतरे में है। अगर संविधान बचाना है तो मोदी को मारने के लिए तैयार रहो। उसे हराने के अर्थ में मारो।' उनके इस बयान का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद पन्ना पुलिस ने पटेरिया के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई थी।   इसके बाद पुलिस ने राजा पटेरिया को 13 दिसंबर 2022 को दमोह जिले के हटा कस्बे स्थित उनके आवास से गिरफ्तार किया था और तभी से वह न्यायिक हिरासत में है। पन्ना जिले के पवई कस्बे की एक अदालत ने उन्हें जमानत देने से इनकार कर दिया था, जिसके बाद उनके वकीलों ने उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया था। उच्च न्यायालय में न्यायमूर्ति संजय द्विवेदी की पीठ ने बीते रोज जमानत याचिका पर सुनवाई पूरी कर आदेश सुरक्षित रख लिया था।   अब उच्च न्यायालय ने पटेरिया की जमानत याचिका को खारिज करते हुए कहा कि "सार्वजनिक नेता से यह उम्मीद नहीं की जाती है कि वह राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री जैसे उच्च पद के नेता की छवि को खराब करने वाली भाषा का इस्तेमाल करे और समाज में आतंक पैदा करे। एक जननेता के लिए देश के प्रधानमंत्री के लिए इस तरह की अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल करने का कोई अवसर नहीं था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 January 2023

जन-समुदाय का सहयोग टी.बी. मुक्त भारत अभियान की सफलता का आधार

हानिकारक पदार्थों का सेवन, चिंता और चिंतन का विषय राज्यपाल मंगुभाई पटेल ने कहा है कि तंत्र के प्रयासों में जन का सहयोग सफलता का आधार होता है। किसी भी अभियान के साथ जन-समुदाय का व्यक्तिगत और सामूहिक जुड़ाव उसकी सफलता की संभावना को बहुत बढ़ा देता है। प्रधानमंत्री टी.बी. मुक्त भारत अभियान के साथ प्रदेश के जन और तंत्र की सहभागिता, अभियान की सफलता का संदेश हैं। उन्होंने कहा कि तम्बाकू के खेत में बागुड़ नहीं लगाई जाती क्योंकि उसे पशु नहीं खाते हैं। मानव द्वारा उसका सेवन कर अपनी सेहत को खराब करना चिंता और चिंतन का विषय है। इसलिए जरूरी है कि टी.बी. होने के कारण, बचाव और उपचार के लिए नियमित दवा, पोषक आहार के सेवन के साथ ही आहार-विहार की सावधानियों के संबंध में जागरूकता का व्यापक स्तर पर प्रसार किया जाए। राज्यपाल पटेल आज कुशाभाऊ ठाकरे इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर, भोपाल में टी.बी. मुक्त भारत अभियान म.प्र. के "नि-क्षय मित्र" समारोह को संबोधित कर रहे थे।  राज्यपाल  पटेल ने कहा कि यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारत की सोच और कार्य-प्रणाली दुनिया में देश को आगे रखने की है। वैश्विक महामारी कोविड का सामना करने में भारत ने एक मिसाल पेश की है। नए भारत की रीति-नीति और आत्म-विश्वास के साथ टी.बी. उन्मूलन के लिए प्रदेश में हो रहे प्रयास सराहनीय है। उन्होंने कहा कि टी.बी. उन्मूलन अभियान को जन-आंदोलन बनाने के लिए यह बताना जरूरी है कि बीमारी की रोकथाम बहुत सरल है।  सुलभ और कारगर नि:शुल्क इलाज  उपलब्ध है। बीमारी से जुड़ी हीन भावनाओं और भ्रम को दूर करने के प्रयास भी जरूरी हैं। स्थानीय स्तर पर उपलब्ध पोषक खाद्य सामग्री को आहार में शामिल करने के संबंध में व्यापक जन- जागरूकता के कार्य किए जाना चाहिए। राज्यपाल  पटेल ने कहा कि सामान्यत: देखा गया है कि बीमारी के इलाज के लिए लोग दवा खाते हैं, लेकिन आहार में सही बदलाव नहीं करते हैं। उन्होंने नि-क्षय मित्रों से अपील की कि पोषण आहार में सहयोग के साथ ही टी.बी. रोग उपचार के लिए आवश्यक आहार-विहार की सावधानियों के पालन में क्षय रोगियों और उनके परिजन का मार्गदर्शन करें। राज्यपाल ने उपस्थित जनों को टी.बी. मुक्त भारत की शपथ दिलाई। प्रचार-प्रसार, प्रिंट-सामग्री और फिल्म “मेरी तब की कहानी” का लोकार्पण किया। टी.बी. चेम्पियन के अनुभवों को सुना। नि-क्षय मित्रों को प्रशस्ति-पत्र वितरित किए। अनूपपुर और उमरिया जिलों के एक हजार 355 क्षय रोगी के लिए सामुदायिक सहयोग के रूप में 4 लाख 33 हजार 500 रूपये की राशि डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के द्वारा प्रदाय की गई। भोपाल के 20 टी.बी. मरीज को फूड बास्केट का वितरण किया गया। लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने कहा कि प्रधानमंत्री टी.बी. मुक्त भारत अभियान को प्रदेश में पूरी गति के साथ क्रियान्वित किया जा रहा है। मध्यप्रदेश, विकासखण्ड स्तर पर टी.बी. रोग की जाँच सुविधा उपलब्ध कराने वाला देश का पहला राज्य है। रोगियों के चिन्हांकन का कार्य भी व्यापक स्तर पर किया जा रहा है। गतवर्ष 74 हजार 337 जाँच की तुलना में, इस वर्ष एक लाख 81 हजार 800 जाँच की जाकर दोगुना से अधिक की उपलब्धि अर्जित की गई है। उन्होंने बताया कि देश के बड़े राज्यों में टी.बी. मुक्त भारत अभियान में 88 प्रतिशत की सहमति प्राप्त कर मध्यप्रदेश प्रथम स्थान पर है। अभी तक 4 हजार 609 नि-क्षय मित्र का पंजीयन हुआ है, जिनमें 3 हजार 89 नि-क्षय मित्र टी.बी. मरीजों से जुड़ गए हैं। नि-क्षय मित्र बनने के लिए सांसद और विधायकों से भी अनुरोध किया गया है। उन्होंने कहा कि नि-क्षय मित्र के रूप में प्रदेश के सभी स्तर के जन-प्रतिनिधि, अधिकारी और समाजसेवियों को अभियान के साथ जोड़ने का प्रयास किया जा रहा है। जबलपुर जिले से आए टी.बी. चेम्पियन सुश्री कंचन सेन और अरूण बावरिया ने टी.बी. रोग से पीड़ित होने की परिस्थिति और समस्याओं की जानकारी देते हुए टी.बी. के साथ अपनी लड़ाई और जीत की कहानी सुनाई। उन्होंने टी.बी. उन्मूलन प्रयासों में सहयोग के संकल्प के साथ कहा कि “करते है यह वादा होगा टी.बी. मुक्त मध्यप्रदेश हमारा”। अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य मोहम्मद सुलेमान ने प्रधानमंत्री टी.बी. मुक्त भारत अभियान के संबंध में स्वास्थ्य विभाग की रणनीति और उन्मूलन प्रयासों की जानकारी दी। प्रदेश के जनजाति बहुल इलाकों पर विशेष ध्यान केन्द्रित किए जाने के सम्बन्ध में बताया।  आयुक्त लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण डॉ. सुदाम पी. खाडे ने आभार माना। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन संचालक  प्रियंका दास सहित बड़ी संख्या में नागरिक मौजूद रहे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  8 December 2022

प्राथमिक शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया के मध्य में नियुक्ति की शर्तें बदलने पर HC ने  मांगा जवाब

स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव, आयुक्त लोक शिक्षण संचालनालय और मध्य प्रदेश व्यावसायिक परीक्षा मंडल को नोटिस जारी   हाई कोर्ट ने प्राथमिक शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया के मध्य में नियुक्ति की शर्तें बदले जाने पर जवाब-तलब कर लिया है। स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव, आयुक्त लोक शिक्षण संचालनालय और मध्य प्रदेश व्यावसायिक परीक्षा मंडल को नोटिस जारी किए गए हैं। हाई कोर्ट ने अंतरिम राहत प्रदान करते हुए याचिकाकर्ताओं को साक्षात्कार में शामिल करने की अनुमति प्रदान करने की व्यवस्था दे दी। हालांकि, परिणाम घोषित करने पर रोक लगाई है। इस तरह साफ है कि शिक्षक भर्ती प्रक्रिया का परिणाम विचाराधीन याचिका के अंतिम निर्णय के अधीन रहेगा। न्यायमूर्ति नंदिता दुबे की एकलपीठ के समक्ष मामले की सुनवाई हुई। याचिकाकर्ता राजधानी भोपाल निवासी रचना धाकड़ सहित सागर, सीहोर, सतना, सीधी, उमरिया के आवेदकों की ओर से पक्ष रखा गया। याचिका मे कहा गया कि  कि आयुक्त लोक शिक्षण ने प्राथमिक शिक्षक के पद पर भर्ती के लिए विज्ञापन जारी किया था। जिसके अनुसार आवेदकों के लिए एक जनवरी 2021 को न्यूनतम आयु 18 वर्ष निर्धारित की थी। आवेदक भरने के बाद याचिकाकर्ताओं ने परीक्षा दी और वे उत्तीर्ण हो गए। लेकिन भर्ती प्रक्रिया के मध्य में काउंसलिंग के लिए दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। इसके तहत उम्मीदवारों के लिए न्यूनतम आयु 21 वर्ष निर्धारित कर दी गई है। काउंसलिंग 24 नवंबर से शुरू हो रही है। हाई कोर्ट ने सभी बिंदुओं पर गौर करने के बाद व्यवस्था दी कि याचिकाकर्ताओं को काउंसलिंग में शामिल किया जाए। साथ ही परिणाम सीलबंद कवर में सुरक्षित रखा जाए। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  15 November 2022

राष्ट्रपति मुर्मु का जबलपुर पहुँचने पर भव्य स्वागत

  राज्यपाल पटेल और मुख्यमंत्री चौहान ने जबलपुर विमानतल पर की आगवानी राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मु के दो दिवसीय मध्यप्रदेश प्रवास के लिए आज जबलपुर पहुँचने पर भव्य स्वागत किया गया। राष्ट्रपति बनने के बाद उनकी मध्यप्रदेश की यह पहली आधिकारिक यात्रा है । राष्ट्रपति लालपुर, शहडोल में भगवान बिरसा मुंडा की जयंती पर आयोजित जनजातीय सम्मेलन में शामिल होने आई हैं ।राष्ट्रपति  मुर्मु का आज दोपहर लगभग 12.15 बजे झारखंड की राजधानी रांची से भारतीय वायुसेना के विमान से जबलपुर के डुमना विमानतल आगमन हुआ। विमानतल पर राज्यपाल मंगुभाई पटेल एवं मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने उनकी  अगवानी की। राष्ट्रपति का स्वागत केंद्रीय जनजातीय कार्य मंत्री अर्जुन मुंडा, केंद्रीय इस्पात एवं ग्रामीण विकास राज्य मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते,  प्रदेश के राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत एवं राज्य सभा सदस्य  सुमित्रा वाल्मिकी ने भी स्वागत किया। विमानतल पर करीब 10 मिनट रूकने के बाद राष्ट्रपति ने राज्यपाल एवं मुख्यमंत्री के साथ वायुसेना के हेलिकॉप्टर द्वारा शहडोल प्रस्थान किया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  15 November 2022

मध्यप्रदेश में 6 लाख करोड़ रूपये से अधिक की सड़कें बनाई जायेंगी

केन्द्रीय मंत्री गड़करी और मुख्यमंत्री चौहान ने जबलपुर में किया 8 सड़क परियोजनाओं का शिलान्यास केन्द्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गड़करी ने कहा है कि मध्यप्रदेश में 6 लाख करोड़ रूपये से अधिक लागत की सड़कें बनाई जायेंगी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के भागीरथ प्रयासों से मध्यप्रदेश बीमारू राज्य से विकसित राज्य बन गया है। उन्होंने मुख्यमंत्री के आग्रह पर जबलपुर में लॉजिस्टिक पार्क स्वीकृत करने की घोषणा की। केन्द्रीय मंत्री गड़करी और मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जबलपुर में 4054 करोड़ रूपये लागत से 214 किलोमीटर लंबाई की 8 सड़क परियोजना का शिलान्यास और लोकार्पण किया। उन्होंने विकास कार्यों के लिये आधा दर्जन मार्गों को मंजूरी देते हुए सौगात दी। जिसका लाभ दमोह, सागर, सिवनी, बालाघाट, कटनी, डिण्डौरी सहित पूरे मध्य भारत को मिलेगा। केन्द्रीय मंत्री गड़करी ने कहा कि जबलपुर में विकास की अपार संभावनाओं को मूर्त रूप देने के लिये केन्द्र सरकार से हमेशा सहयोग मिलेगा। यहाँ शिक्षा, चिकित्सा, उद्योग, रोजगार सहित अन्य सभी सेक्टर्स में विकास को गति मिलेगी। जबलपुर नगर में एम्पायर टॉकीज से कटंगा, साउथ एवेन्यू मॉल से ग्वारी घाट-गुरूद्वारा तक रोप-वे को मंजूरी दी जा रही है। साथ ही सिविक सेंटर से मालवीय लार्डगंज, बड़ा फुहारा, बल्देव बाग तक फिजिबिलिटी रिपोर्ट तैयार होते ही फ्लाई ओवर निर्माण की स्वीकृति दी जायेगी। केन्द्रीय मंत्री गड़करी ने कहा कि मुख्यमंत्री चौहान प्रदेश में जहाँ कहीं भी लॉजिस्टिक पार्क की स्थापना का प्रस्ताव देंगे उन सबको मंजूरी दे दी जायेगी। उन्होंने कहा कि शहपुरा-भिटोनी मार्ग को उन्नत करने और उमरिया-डुंगरिया मार्ग को रिंग रोड से जोड़ने के कार्य को स्वीकृति दी जायेगी। उन्होंने कहा कि केन्द्रीय राज्य मंत्री  प्रहलाद सिंह पटेल द्वारा शहपुरा-नरसिंहपुर और दमोह की सभी सड़क परियोजनाओं को जल्द ही मूर्त रूप दिया जायेगा। जबलपुर में रिंग रोड पर तैयार होने वाले आईकॉनिक ब्रिज को पर्यटन के लिये विकसित करने के लिये केन्द्र सरकार द्वारा सभी संभव मदद दी जायेगी। केन्द्रीय मंत्री गड़करी ने कहा कि जबलपुर से दमोह तक 800 करोड़ रूपये की लागत से 100 किलोमीटर 2 लेन सड़क निर्माण की मंजूरी दी गई है। इस मार्ग के लिये डीपीआर का कार्य पूरा हो गया है। शीघ्र ही निर्माण कार्य शुरू होगा। जबलपुर के आईएसबीटी से पाटन तक 2 लेन सड़क, नरसिंहपुर से सिंहपुर तक 10 किलोमीटर लंबी 4 लेन सड़क को मंजूरी दी गई है। नरसिंहपुर से श्योपुर मार्ग का डीपीआर बहुत जल्द तैयार हो जायेगा। सिवनी से बालाघाट तक 88 किलोमीटर लंबा मार्ग नया एनएच होगा। बालाघाट से राजेगाँव तक 4 लेन मार्ग के लिये टेंडर प्रक्रिया वर्ष 2023 तक पूर्ण हो जायेगी। राजेगाँव से रायपुर तक 3 हजार 500 करोड़ रूपये लागत से नया सड़क मार्ग तैयार किया जायेगा। केन्द्रीय मंत्री  गड़करी ने कहा कि जबलपुर में बनने वाले रिंग रोड के आसपास की जमीन राज्य सरकार अधिग्रहित करे। डेव्हलपमेंट अथॉरिटी बनाये। इस जमीन पर लॉजिस्टिक पार्क, इण्डस्ट्रियल क्लस्टर और स्मार्ट सिटी का निर्माण किया जा सकता है1 उन्होंने कहा कि भेड़ाघाट में म्यूजिकल फाउंटेन बनाने में केन्द्र सरकार मदद करेगी। जबलपुर-नागपुर मेट्रो भी बहुत जल्द केन्द्रीय मंत्री गडकरी ने कहा कि जबलपुर और नागपुर के मध्य मेट्रो ट्रेन जल्दी ही शुरू की जायेगी। इसमें 8 बोगी होंगी। दो बोगी फल-सब्जियों के लिये रहेंगी। शेष छह बोगी में एक बिजनेस क्लास बोगी होगी, जिसमें हवाई जहाज की तरह सुविधाएँ होंगी। रिंग रोड जबलपुर के सर्वांगीण विकास की गारंटी : मुख्यमंत्री श्री चौहान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि सड़क परियोजनाओं-रिंग रोड का निर्माण जबलपुर के सर्वांगीण विकास की गारंटी है। यह केवल रिंग रोड ही नहीं है, बल्कि युवाओं के रोजगार, उद्योग, व्यापार, शिक्षा और स्वास्थ्य सहित विकास के लिये अनेक द्वार खोलने वाली परियोजना है। इससे महाकौशल क्षेत्र में पर्यटन की संभावनाएँ बढ़ेंगी। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में जबलपुर प्रदेश के सर्वाधिक विकसित शहरों में होगा। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि देश प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सक्षम नेतृत्तव में तेजी से आगे बढ़ रहा है। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि केन्द्रीय मंत्री गड़करी ने देश में विकास की नई परंपरा शुरू की है। उनकी कल्पनाशीलता का लाभ सभी को मिल रहा है। उन्होंने असंभव को भी संभव बनाया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि अमृत फेज-दो में जबलपुर के लिये 720 करोड़ रूपये के कार्य स्वीकृत किये जा रहे हैं। डुमना एयरपोर्ट 421 करोड़ रूपये की लागत से बन रहा है। उन्होंने आईकॉनिक ब्रिज बनाने और मॉस रेपिड ट्रांसपोर्ट सिस्टम को आधुनिकतम बनाने का भी आग्रह किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि जन-प्रतिनिधियों के विकास एवं जन-कल्याण संबंधी कार्यों के प्रस्ताव स्वीकृति के लिये भेजे जायेंगे। केन्द्रीय राज्य मंत्री प्रहलाद पटेल केन्द्रीय जल शक्ति एवं खाद्य प्र-संस्करण एवं उद्योग राज्य मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल ने कहा है कि हर क्षेत्र में विकास कार्य हो रहे हैं, जिसका लाभ सभी को मिल रहा है। दमोह जिले में भी जल्द राष्ट्रीय राजमार्ग रफ्तार भरेगा। विकास की जो नींव आज रखी जा रही है, उसका लाभ आने वाले 50 वर्ष तक मिलेगा। प्रदेश के लोक निर्माण और जबलपुर जिले के प्रभारी मंत्री  गोपाल भार्गव ने कहा कि देश ने वर्ष 2014 के बाद विकास की रफ्तार पकड़ी है। सड़कों के बिना विकास की कल्पना ही नहीं की जा सकती। उच्च गुणवत्ता की सड़कें क्षेत्र को और लोगों को समृद्ध बनाती हैं। उन्होंने कहा कि केन्द्रीय मंत्री  गड़करी कामधेनु और कल्पवृक्ष की तरह विकास और जन-कल्याण की सभी माँगों को पूरी करते हैं। सांसद राकेश सिंह ने कहा कि महाकौशल अंचल को आज मिली 13 सड़क परियोजनाओं की सौगात से इस क्षेत्र में आर्थिक गतिविधियाँ बढ़ेंगी, संपन्नता आयेगी और युवाओं के लिये रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। उन्होंने इन परियोजनाओं की सौगात देने के लिये केन्द्रीय मंत्री श्री गड़करी का आभार माना।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  8 November 2022

बिशप पीसी सिंह को नागपुर एयरपोर्ट से हिरासत में लिया गया

  जर्मनी से लौटते ही ईओडब्ल्यू ने बिशप पीसी सिंह को गिरफ्तार किया जबलपुर के बिशप पीसी सिंह को नागपुर एयरपोर्ट से ईओडब्ल्यू ने लिया हिरासत में ले लिया है। करोड़ों रुपये के फर्जीवाड़े में फंसे द बोर्ड आफ एजुकेशन चर्च आफ नार्थ इंडिया जबलपुर डायोसिस के चेयरमैन बिशप पीसी सिंह को जर्मनी से देश लौटते ही नागपुर एयरपोर्ट से ईओडब्ल्यू ने हिरासत में ले लिया है। आरोपित बिशप से ईओडब्ल्यू की टीम ने पूछताछ शुरू कर दी है। बिशप पीसी सिंह को जर्मनी से देश वापस अपने पर पकड़ने के लिए ईओडब्ल्यू ने पहले से ही तैयारी कर ली थी। बिशप पीसी सिंह को नागपुर एयरपोर्ट पर विमान से उतरते ही सीआइएसएफ के सहयोग से हिरासत में ले लिया गया। बिशप पीसी सिंह को अभिरक्षा में लेकर ईओडब्ल्यू की टीम ने पूछताछ शुरू कर दी है। पुलिस अधीक्षक ईओडब्ल्यू जबलपुर देवेंद्र प्रताप सिंह राजपूत ने बताया कि बिशप पीसी सिंह को अभिरक्षा में लेकर पूछताछ शुरू कर दी गई है। वहीं द बोर्ड आफ एजुकेशन चर्च आफ नार्थ इंडिया जबलपुर डायोसिस के चेयरमैन बिशप पीसी सिंह के घर और कार्यालय से मिले संप​त्तियों के दस्तावेजों की छानबीन ईओडब्ल्यू ने तेज कर दी है। ईओडब्ल्यू की टीम ने नगर निगम के राजस्व विभाग, जिला प्रशासन के राजस्व विभाग और जेडीए को पत्र लिखा है। पत्र के माध्यम से बिशप पीसी सिंह और उससे जुड़े सभी ट्रस्टों की संप​त्तियों की पूरी जानकारी मांगी गई है। साथ ही यह भी जानकारी मांगी गई है कि जिस समय लीज दी गई, वह किसके नाम पर दी गई है, कितने समय के लिए दी गई है और कितनी रा​शि में यह लीज स्वीकृत की गई थी। यदि किसी संप​​त्ति की लीज में नाम परिवर्तन हुआ है, तो उसका भी पूरा ब्यौरा संबंधित विभागों से मांगा गया है।आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ ने बिशप पीसी सिंह, उसके परिजन और ट्रस्ट यहित स्कूल के 48 बैंक खातों को सीज कर दिया था। इन सभी बैंक खातों से हुए एक-एक लेनदेन की जानकारी सभी संबंधित बैंकों से मांगी गई है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 September 2022

शिवराज सिंह चौहान ने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की

  जबलपुर संभाग के जिलों को आवंटित यूरिया के संबंध में आपात बैठक  जबलपुर संभाग में यूरिया वितरण में पिछले कुछ दिनों से शिकायते मिल रही हैं। जिसको लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सुबह  7 बजे निवास से वरिष्ठ अधिकारियों के साथ जबलपुर संभाग के जिलों को आवंटित यूरिया के संबंध में आपात बैठक ली।  इस बैठक में कृषि उत्पादन आयुक्त शैलेंद्र सिंह, अपर मुख्य सचिव कृषि अजीत केसरी शामिल हुए तथा जबलपुर के संभाग आयुक्त सहित पुलिस प्रशासन के अधिकारी तथा मार्कफेड के अधिकारी वर्चुअली सम्मिलित हुए। इस बैठक में मुख्यमंत्री शिवराज ने खाद वितरण में अनियमितता को लेकर नाराजगी व्‍यक्‍त की और किसानों को खाद से वंचित रखने वाले दोषियों पर सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए। मुख्‍यमंत्री ने स्‍पष्‍ट कहा कि दोषियों के खिलाफ तत्काल एफआइआर दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार किया जाए। बैठक के दौरान जबलपुर संभाग आयुक्त ने  बताया कि यूरिया खाद के आवंटन की जिम्मेदारी कृभकों की थी।  जबलपुर में 2600 मीट्रिक टन के रैक लगे थे। कृभकों को बता दिया गया था कि किस जिले को कितना आवंटन जाना है। परिवहनकर्ता द्वारा 28 से 31 अगस्त के बीच परिवहन किया गया लेकिन इन्हें जो स्थान बताए गए थे, उनके स्थान पर यूरिया निजी स्थानों पर सप्लाई किया गया। कृभकों में परिवहन कर्ताओं द्वारा निर्धारित स्थानों पर आपूर्ति कम की गई और कुछ स्थानों पर बिलकुल नहीं करने की सूचना है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दोषियों के खिलाफ तत्काल एफआइआर कर उन्हें गिरफ्तार करने और कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए। आयुक्त ने बताया कि खाद्य डाइवर्ट करने पर फर्टिलाइजर मूवमेंट कंट्रोल ऑर्डर का उल्‍लंघन हुआ है। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि हमारे किसानों को खाद से वंचित करने वालों को छोड़ा नहीं जाएगा, जिस समय खाद की आवश्यकता है उस समय ऐसा होना एक गंभीर अपराध है। जिस समय खाद की सबसे अधिक जरूरत है उस समय खाद के लिए अफरा-तफरी मची है, यह अपराध है। दोषियों के विरुद्ध ऐसी सख्त कार्रवाई की जाए जो उदाहरण बने। मुख्यमंत्री चौहान ने जबलपुर पुलिस प्रशासन के अधिकारियों को स्‍पष्‍ट निर्देश दिए कि कि खाद वितरण में लगी कंपनियों को समझाने से काम नहीं चलेगा। दोषियों के विरुद्ध एक्शन लेकर बताएं। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 September 2022

मध्यप्रदेश में भारी बारिश से बिगड़े हालात

  भोपाल में पिछले 24 घंटे में 7.5 इंच हुई   मध्य प्रदेश में 52  घंटे से लगातार भारी बारिश के चलते जान जीवन अस्त व्यस्त हो गया है।सबसे ज्यादा बारिश राजधानी भोपाल में पिछले 24 घंटे में 7.5 इंच हुई है।भोपाल के बावड़ियाकलां इलाके की पॉश कॉलोनी इंडस एम्पायर में पानी भर गया। कई घरों की पहली मंजिल डूबने से यहां के 40 मकानों में 18 परिवार फंस गए। जिसके बाद राफ्ट की मदद से लोगों को रेस्क्यू किया गया। शहर में रविवार-सोमवार के दरमियान 7.5 इंच से ज्यादा बारिश हुई है।  कई जिलों में बाढ़ के हालात बने हुए  हैं।  अगले 24 घंटे में तेज बारिश का नया अलर्ट जारी किया गया है। नर्मदापुरम जिले में नेशनल हाईवे बंद हो गया है। नरसिंहपुर से जबलपुर पहुंचने का रास्ता बंद हो गया है। खंडवा में नर्मदा नदी उफान पर है। जबलपुर में ग्वारीघाट के पास नर्मदा नदी से करीब 70 फीट की ऊंचाई पर स्थित दुकानें डूब चुकी हैं। यहां बरगी डैम के 30 में से 17 गेट खुलने से नर्मदा रौद्र रूप में आ गई है। जबलपुर में ग्वारीघाट के पास नर्मदा नदी से करीब 70 फीट की ऊंचाई पर स्थित दुकानें डूब चुकी हैं। यहां बरगी डैम के 30 में से 17 गेट खुलने से नर्मदा रौद्र रूप में आ गई है। पचमढ़ी के जटाशंकर मंदिर में पानी भर गया है। 24 घंटे में पचमढ़ी में 148 मिलीमीटर बारिश हुई है। इससे निचली बस्तियों में पानी भर गया है। सांडिया में नर्मदा नदी 12 मीटर के खतरे के निशान पर बह रही है।  सांडिया में नर्मदा नदी 12 मीटर के खतरे के निशान पर बह रही है।नरसिंहपुर जिले में लगातार 36 घंटों से हो रही बारिश से नर्मदा नदी उफान पर है। झांसी घाट का पुल डूबने से जबलपुर-नरसिंहपुर मार्ग बंद हो गया है। ककरा घाट का पुल भी डूब गया है। तेंदूखेड़ा-गाडरवाड़ा मार्ग भी बंद है। पुलिस बल और रेस्क्यू टीम जरूरी स्थानों पर तैनात है।रायसेन जिले में चारों तरफ पानी ही पानी नजर आ रहा है। निचली बस्तियों में बाढ़ के हालात हैं। जलजमाव से सभी रास्ते बंद हैं। कलेक्टर ऑफिस और उनके बंगले में भी पानी भर गया है। प्रशासन ने नागरिकों से घरों में रहने की अपील की है। प्रभावित लोगों को शहर के वन परिसर और सिंधी धर्मशाला में पहुंचाया जा रहा है।सीधी में शनिवार-रविवार की रात बारिश होती रही। रविवार शाम को डिहुली पंचायत के परसोना निवासी दो युवक सुरेश केवट (24) और राजेश केवट (30) सोन नदी में फंस गए। करीब 14 घंटे बाद SDRF की टीम ने दोनों को सुरक्षित निकाला।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 August 2022

हाई कोर्ट किसानो का भुगतान नहीं करने पर सख्त

  पिछले चार वर्ष से गेहूं खरीदी का भुगतान नहीं हुआ   हाई कोर्ट ने किसानों को गेहूं खरीदी के पैसों का भुगतान नहीं करने पर सख्त टिप्पणी की है। आपो बता दें पिछले चार वर्ष से गेहूं खरीदी का भुगतान नहीं हुआ है। कटनी के प्रमोद कुमार चतुर्वेदी सहित आठ किसानों ने वर्ष 2019 में याचिका दायर की थी। याचिकाकर्ताओं की ओर से अधिवक्ता सुरेन्द्र कुमार मिश्रा ने पक्ष रखा। उन्होंने दलील दी कि किसानों ने वर्ष 2018 में अप्रैल-मई माह में गेहूं बेचा था। जब पैसा नहीं मिला तो किसानों ने 2019 में हाई कोर्ट में याचिका दायर की। शासन की ओर से पैनल लायर जितेन्द्र श्रीवास्तव ने बताया कि महाधिवक्ता कार्यालय से तीन बार रिमाइंडर भेजा गया है, लेकिन कोई जवाब नहीं आया। सुनवाई के बाद हाई कोर्ट ने जुर्माने की राशि जमा करने की शर्त पर जवाब के लिए अंतिम मोहलत दी  है। न्यायमूर्ति विवेक अग्रवाल की एकलपीठ ने अपनी तल्ख टिप्पणी में कहा कि सरकार एक तरफ तो खुद को किसान हितैषी बताती है। लेकिन दूसरी तरफ किसानों से जुड़े मुद्दे पर पिछले तीन साल से जवाब तक पेश नहीं कर सकी है। दरअसल, वर्ष 2018 में खरीदे गए गेहूं का किसानों को अब तक भुगतान न करना सरकार के दोहरे चरित्र को दर्शाता है।  25 हजार रुपये का जुर्माना लगाया जाता है। यह राशि जवाब पेश नहीं करने के दोषी अधिकारी से 10 दिन के भीतर वसूल कर हाई कोर्ट विधिक सेवा समिति में जमा कराई जाए। कोर्ट ने जुर्माना राशि जमा कराने की शर्त पर ही सरकार को जवाब पेश करने 10 दिन की मोहलत दी है।   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 August 2022

किन्नर महामंडलेश्वर हिमांगी सखी ने नर्मदा नदी का लिया जल

ज्ञानवापी महादेव मंदिर में जलाभिषेक करने की तैयारी    पशुपतिनाथ अखाड़े की किन्नर महामंडलेश्वर हिमांगी सखी नर्मदा नदी के किनारे ग्वारीघाट पहुंचीं। किन्नर महामंडलेश्वर हिमांगी सखी  मैं अर्धनारीश्वर होते हुए शिवलिंग का जलाभिषेक करूंगी, क्योंकि भगवान शिव भी अर्धनारीश्वर का ही स्वरूप हैं। सनातन धर्म के संत काशी विश्वेश्वर में नर्मदा नदी के जल से अभिषेक करना चाहते हैं। इस पर अब तक कोई फैसला नहीं लिया गया है। पूरा महीना सावन महीना खत्म होने जा रहा है। उन्होंने कहा, एक अर्धनारीश्वर दूसरे नारीश्वर को जल चढ़ाने जा रही है। उन्होंने ये भी कहा, श्रावण मास समाप्त होने वाला है।  आखिरी सोमवार आने को है।  अब तक बनारस में ज्ञानवापी में महादेव मंदिर में जलाभिषेक करने की अनुमति नहीं दी गई है।  इसलिए अब वे नहीं रुकेंगी और यहां से जल लेकर वहां जाएंगी। गौरतलब है कि  किन्नर महामंडलेश्वर ने यहां ऐलान किया था कि वे 8 अगस्त को बनारस के ज्ञानवापी महादेव मंदिर में जलाभिषेक करने के लिए जाएंगी। हिमांगी सखी को प्रथम किन्नर भागवताचार्य का सम्मान भी प्राप्त है।किन्नर महामंडलेश्वर हिमांगी सखी ने कहा कि ज्ञानवापी महादेव का जलाभिषेक करने हर हाल में जाएंगी। भले ही इसके लिए उनको जेल जाना पड़े या फिर  उनकी जान चली जाए।  हिमांगी सखी के साथ  दो दर्जन किन्नर अन्य संत  बनारस के लिए रवाना होंगे । 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 August 2022

न्यू लाइफ मल्टी स्पेशिएलिटी मामले में गैरइरादतन हत्या का केस

  चार लोगों के खिलाफ एफआईआर , मैनेजर हुआ गिरफ्तार      जबलपुर के न्यू लाइफ मल्टी स्पेशिएलिटी अस्पताल में हुए भीषण अग्निकांड में आठ लोगों की मौत के बाद लोगों में काफी गुस्सा देखा जा रहा है। वहीं मामले में पुलिस ने अस्पताल के डायरेक्टर सहित चार लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है।  आरोपितों के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज कर किया गया है। अस्पताल के मैनेजर को गिरफ्तार कर लिया गया है।अग्निकांड हादसे की जांच पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा के निर्देश पर शुरू कर दी गई है। प्रारंभिक जांच में यह बात सामने आई है कि अस्पताल के डायरेक्टर एवं मैनेजर द्वारा सुरक्षा के इंतजाम नहीं किए गए थे।  जिस कारण अस्पताल में आग लगने के बाद 8 लोगों की मृत्यु हो गई है। अस्पताल के  फायर ब्रिगेड के एनओसी ली गई थी।  वह भी मार्च 2022 में समाप्त हो गई थी। अस्पताल में अग्निशमन यंत्र की व्यवस्थाएं नहीं थीं और ऐसे हादसों की दशा में लोगों के निकलने के लिए कोई दूसरा रास्ता भी नहीं था। अस्पताल सुंदरीकरण में बिल्डिंग के सामने प्लास्टिक और फाइबर की कांच जैसी दिखने वाली सीट लगाई गई थी, जिस कारण आग तेजी से फैली थी। बताया जा रहा है कि अस्पताल के डायरेक्टर डॉक्टर निशांत गुप्ता, डॉ सुरेश पटेल, डॉ संजय पटेल डॉ संतोष सोनी और  मैनेजर राम सोनी के खिलाफ गैर इरादतन हत्या एवं गैर इरादतन हत्या के प्रयास का प्रकरण दर्ज कर लिया गया है। आरोपित मैनेजर राम सोनी को गिरफ्तार कर पूछताछ की जा रही है। शेष फरार आरोपितों की तलाश जारी है। अब इस मांमले में सियासत शुरू हो गई है।  जहां  विपक्ष ने इसे सरकार की नाकामी बताया वहीं अग्निकांड में बचे मरीजो को देखने सांसद राकेश सिंह और जनप्रतिनिधि मेट्रो अस्पताल पहुंचे।   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 August 2022

जनपद पंचायत में कई जिलों से कांग्रेस की शिकायत

  बीजेपी पर कोंग्रेस ने सदस्यों उठाने का आरोप  मध्यप्रदेश में जिला पंचायत अध्यक्षों के चुनाव में कई नए मोड़ आ रहे हैं।  कहीं बीजेपी तो कहीं कांग्रेस का कब्ज़ा हो रहा है।सीहोर जिला पंचायत अध्यक्ष को लेकर भोपाल में बवाल हुआ। सीहोर के जिला पंचायत सदस्यों को भोपाल की खजूरी पुलिस उठाकर थाने ले आई। जानकारी लगने पर बड़ी संख्या में कांग्रेस नेता थाने पहुंच गए। कांग्रेसियों का आरोप है कि उनके ऊपर भाजपा में शामिल होने के लिए दबाव बनाया जा रहा है। वहीं इस बीच  मुरैना में कांग्रेस ने पुलिस पर कांग्रेस समर्थित जिला पंचायत सदस्यों को उठाने का आरोप लगाया है। जिसको लेकर कांग्रेसियों ने एसपी ऑफिस का घेराव करते हुए नारेबाजी की। यही हाल जबलपुर और सीहोर का भी है। आपको बता दें गुरुवार रात कांग्रेस के पूर्व मंत्री रामनिवास रावत, विधायक राकेश मावई, अजब सिंह कुशवाह, रविन्द्र सिंह तोमर, सतीश सिकरवार, वरिष्ठ कांग्रेसी नेता अशोक सिंह समेत करीब 100 कांग्रेसी एसपी ऑफिस पहुंच गए। वे यहां धरने पर बैठ गए। आरोप है कि जौरा, बागचीनी व कैलारस पुलिस ने उनके दो जिला पंचायत सदस्यों को किडनैप कर लिया है। यह काम केन्द्रीय मंत्री के इशारे पर किया गया है, जिससे वे जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में मतदान न कर सकें। इसके बाद सभी नेताओं को गिरफ्तार कर पुलिस वैन से सिविल लाइन लाकर नजरबंद किया गया।  श्योपुर  की बात करें तो 11 में से 6 सदस्य कांग्रेस और 5 भाजपा के हैं। कांग्रेस के 6 सदस्यों में से एक वार्ड 7 से चयनित सदस्य संदीप शाक्य को  कैलारस पुलिस ने उसके मामा के घर से उठा लिया। इसके बाद गुरुवार को दूसरे सदस्य वार्ड 4 के गिरधारी लाल बैरवा व वार्ड-1 के सुरेश कुमार लालावत को भी पुलिस ने उठा लिया। जबलपुर में कांग्रेस के विधायकों और पार्टी पदाधिकारियों ने भाजपा नेताओं पर जिला पंचायत सदस्य हीराबाई साहू के पति रामेश्वर साहू के अपहरण का आरोप लगाया है। कांग्रेस विधायकों ने ओमती थाने पहुंचकर विरोध जताया। कांग्रेस का कहना था कि चुनाव जीतने के लिए भाजपा नेता, पुलिस की मिलीभगत से राजनीति कर रहे हैं। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 July 2022

अवैध धर्मस्थलों को लेकर हाई कोर्ट की फटकार

  पुराने अवैध निर्माण हटे नहीं , नए बना दिए गए  मध्य प्रदेश हाई कोर्ट ने अवैध धर्मस्थलों को लेकर नाराजगी जाहिर की है। जबलपुर हाई कोर्ट ने अवैध धर्मस्थल मामले में दायर अवमानना याचिका पर सख्त रुख अपनाया है। चीफ जस्टिस रवि मलिमठ और जस्टिस विशाल मिश्रा की युगलपीठ ने बचे हुए हुए स्थलों को न हटाए जाने के मामले में जबलपुर नगर निगम को जमकर  फटकार लगाई है। अवमानना याचिकाकर्ता अधिवक्ता सतीश वर्मा अधिवक्ता ने हाई कोर्ट को बताया कि मूल आदेश में दिए गए अवैध धर्म स्थलों को अब तक नहीं हटाया है। दूसरी ओर नए बनवा दिए गए हैं। इससे रोड चौड़ी करने, नाली निर्माण या फुटपाथ बनाने में विलंब हो रहा है। कैंटोनमेंट, रेलवे और आर्मी एरिया के अवैध निर्माण भी कलेक्टर जबलपुर की उदासीनता के कारण नहीं हटाए जा सके हैं। याचिकाकर्ता ने बताया कि ओमती में मशीन वाले बाबा की मजार, हनुमान मंदिर दमोहनाका सहित बहुत से धार्मिक स्थलों पर अभी तक कोई कार्रवाई नही की गई है। कोर्ट ने बचे स्थलों की लिस्ट याचिकाकर्ता से मांगी है। अब इस  मामले की अगली सुनवाई 15 जुलाई को होगी। लेकिन कोर्ट के इस फटकार के बाद नगर निगम क्या कार्रवाई करता है ये सोचने का विषय है। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 July 2022

निजी विश्वविद्यालयों को RTI के तहत जानकारी देना बाध्य नहीं

  जबलपुर हाई कोर्ट ने दी एक आदेश में व्यवस्था     मध्य प्रदेश की जबलपुर हाई कोर्ट ने एक आदेश में व्यवस्था दी है कि निजी विश्वविद्यालयों को RTI अधिनियम के अंतर्गत जानकारी देने बाध्य न किया जाए। न्यायमूर्ति संजय द्विवेदी की एकल पीठ ने मुख्य सूचना आयुक्त के आदेश पर अंतरिम रोक लगा दी। याचिकाकर्ता निजी विश्वविद्यालयों की ओर से अधिवक्ता सिद्धार्थ राधेलाल गुप्ता और आशीष मिश्रा ने अपना पक्ष रखा।उन्होंने दलील दी कि प्राइवेट  विश्वविद्यालय केंद्र या राज्य सरकार से किसी भी तरह का वित्तीय सहायता या शासकीय अनुदान प्राप्त नहीं करते हैं। इस वजह से उन्हें सूचना के अधिकार में लोक सूचना अधिकारी को नियुक्त करने बाध्य करना किसी भी व्यक्ति द्वारा दाखिल आवेदन को स्वीकार कर सूचना प्रदान करने के लिए बाध्य करना अनुचित है। राज्य के मुख्य सूचना आयुक्त द्वारा आदेश पारित कर के यह कहा था कि प्रदेश भर के निजी विश्वविद्यालय न केवल लोक सूचना अधिकारी नियुक्त करने अपितु सूचना के अधिकार में मांगी जाने वाली सभी जानकारियों को सार्वजनिक करने हेतु बाध्य हैं। इसी रवैये के खिलाफ हाई कोर्ट में याचिका दायर की गई है। राज्य सूचना आयोग की ओर से अधिवक्ता जय शुक्ला ने पैरवी की। अधिवक्ता अरुण जैन ने उपभोक्ता आयोग से संबंधित समस्याएं दूर करने पर बल दिया है। पूर्व में कई बार शिकायत के बावजूद समस्या यथावत है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 June 2022

निकाय चुनाव में हाई कोर्ट का नोटिस

  नगर पालिका वार्ड आरक्षण मामले में जवाब-तलब  इटारसी नगर पालिका वार्ड आरक्षण मामले में जबलपुर हाई कोर्ट ने संज्ञान लिया है। हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश रवि मलिमठ और  जस्टिस विशाल मिश्रा की युगलपीठ ने नगर पालिका वार्ड आरक्षण मामले में जवाब-तलब कर लिया है। मामले में राज्य शासन के साथ  चुनाव आयुक्त को नोटिस जारी किए गए हैं। याचिकाकर्ता इटारसी निवासी शंकर लाल यादव की ओर से अधिवक्ता आशीष त्रिवेदी, असीम त्रिवेदी, अपूर्व त्रिवेदी, आनंद शुक्ला व आशीष तिवारी ने पक्ष रखा। उन्हाेंने दलील दी कि पूर्व में एसटीएससी के लिए किए गए आरक्षण को यथावत रखा गया, जो कि एसडीओ द्वारा किया गया था। जबकि विहित प्राधिकारी नियमानुसार कलेक्टर थे, एससी एसटी का आरक्षण नियम विरुद्ध है। इसमें  किए गए आरक्षण में ओबीसी को 25 प्रतिशत से अधिक आरक्षण प्रदान किया गया है। जो कि निर्वाचन नियमों के विरुद्ध है। याचिका में यह भी तर्क दिया गया कि नवीन आरक्षण में ओबीसी सीटों का आरक्षण बिना लाट डाले किया गया जो कि नियम विरुद्ध है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 June 2022

ट्रांसफार्मर फैक्ट्री में भीषण आग

  शॉर्ट सर्किट से लगी आग  जबलपुर रिछाई स्थित ट्रांसफार्मर फैक्ट्री में भीषण आग लग गई। आग  शार्ट सर्किट से लगी । बताया जा रहा है कि फैक्ट्री के सामने ही विद्युत ट्रांसफार्मर लगा हुआ है। ट्रांसफॉर्मर को चालू करने के कुछ देर बाद ही ये घटना हुई।  सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचे रांझी टीआई  ने बताया कि  रविवार को ही ट्रांसफार्मर में सुधार कार्य किया गया था। जिसके  कुछ देर बाद फैक्ट्री में आग लग गई।  संभावना जताई जा रही है कि शार्ट सर्किट से फैक्ट्री में आ लगी होगी। वहीं, महाकोशल उद्योग संघ के अध्यक्ष डीआर जैसवानी ने बताया कि फैक्ट्री में ट्रांसफार्मर की रिपेयरिंग व नए ट्रांसफार्मर बनाने का काम किया जाता है। करीब 100-125 ट्रांसफार्मर फैक्ट्री में रखे हुए थे। इसके अलावा कल ही फैक्ट्री मालिक ने करीब 12 हजार लीटर आयल मंगवाया था। ट्रांसफार्मर में आयल का उपयोग किया जाता है। फैक्ट्री में ज्वलनशील सामग्री रखी होने से आग तेजी से फैली और कुछ घंटे में ही सबकुछ जलकर राख हो गया। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार जिस फैक्ट्री में आग लगी उसके परिसर में ही एक श्रमिक परिवार भी रहता था। जैसे ही आग फैली वहां मौजूद जनों ने उन्हें सुरक्षित बाहर निकाल लिया। नहीं तो जनहानि भी हो सकती थी। दमकलकर्मियों ने बामुश्किल आग पर काबू पाया।  कई घंटों के बाद आग पर काबू पाया जा सका। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 June 2022

जेपी नड्डा का जबलपुर में स्वागत

नरोत्तम मिश्रा का कांग्रेस पर निशाना  गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने जबलपुर में मीडिया से चर्चा की। उन्होंने कहा संस्कारधानी जबलपुर में विश्व की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा जी पधारे हैं। जबलपुरवासियों ने पलक पांवड़े बिछाकर नड्डा जी का स्वागत किया है। आज होने वाली भाजपा कोर ग्रुप की बैठक में समसामयिक विषय पर चर्चा होगी। उन्होंने कहा छत्तीसगढ़ और राजस्थान के लोग कांग्रेस को लाकर भुगत रहे है जनता ने कांग्रेस का झूठ लिखित में सुना भी है और पढ़ा भी है। नरोत्तम मिश्रा ने हार्दिक पटेल जी का भाजपा में हार्दिक स्वागत है। कांग्रेस में गांधी परिवार परिवरवाद का पोशाक है आज के समय में कांग्रेस के पास कार्यकर्ता नहीं बल्कि नेता ही बचे है इसलिए प्रदेश में हो रहे स्थानीय चुनावों में कांग्रेस में वंशवाद ही देखने को मिलेगा। दिल्ली और पंजाब के लोगों को अपने स्वास्थ्य का ख्याल रखना चाहिए क्योंकि उनके स्वास्थ्य मंत्री भ्रष्टाचार में लिप्त है। नेशनल हेराल्ड केस में सोनिया गांधी और राहुल गांधी ने कुछ नहीं किया तो उसे स्पष्ट करे। कांग्रेस नेतृत्व पर विधायकों की आस्था नहीं है सवाल यह है की कांग्रेस में ही चुनाव के समय बेड़ाबंदी क्यों होती है। नरोत्तम मिश्रा ने कहा नड्डा जी मेरे आग्रह पर निवास पधारें उनका मैं हृदय से आभारी हूं। उन्हें काँग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि आज के समय कांग्रेस के पास चुनावी रैली के लिए लोग नहीं है तभी कांग्रेस के नेता भाजपा के रैली में उमड़ी भीड़ को लेकर बौखला रहें है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 June 2022

वाणिज्यिक कर विभाग की कार्रवाई

वाणिज्यिक कर विभाग की कार्रवाई  8 व्यवसाइयों के 14 प्रतिष्ठानों पर कार्रवाई     वाणिज्यिक कर विभाग ने जबलपुर, सागर, इंदौर, राजगढ़ में आठ व्यवसाइयों के 14 प्रतिष्ठानों पर एक साथ कार्रवाई  की।  और कर चोरी पकड़ी है। इन व्यावसायियों के यहां करोड़ों की नियम विरुद्ध खरीदी बिक्री की बात सामने आई है। करीब 40 से 50 करोड़ रुपये की नियम विरुद्ध खरीदी-बिक्री की गई है। करीब सात करोड़ रुपये की कर चोरी की गई है। 70अधिकारियों की टीम ने इस कार्रवाई को अंजाम दिया । कार्रवाई के दौरान प्रतिष्ठानों में कई बोगस प्रतिष्ठान और बोगस बिलिंग पाई गई।  माल परिवहन के लिए दो पहिया वाहनों के पंजीयन पर ई-वे बिल डाउनलोड किए गए हैं। इंदौर में पदस्थ वाणिज्यिक कर आयुक्त लोकेश जाटव ने 70 अधिकारियों की अलग-अलग टीम बनाईं।   चारों जिलों में 14 प्रतिष्ठानों पर कार्रवाई शुरू की गई।   व्यावसायियों ने जांच में बाधा पहुंचाने की कोशिश की। इन व्यावसायियों के खिलाफ जीएसटी अधिनियम की धारा 67-2 एवं 68 के तहत कार्रवाई की जा रही है। इसके साथ ही सेक्टर स्तर पर भी कार्रवाई शुरू कर दी गई है। विभाग की टैक्स रिसर्च एवं एनालिसिस विंग परिक्षेत्र इंदौर ने व्यवसायियों का जीएसटी पोर्टल, ई-वे बिल, गेन पोर्टल पर उपलब्ध डाटा का सूक्ष्म विश्लेषण किया। प्रेसनोट के जरिए वाणिज्यिक कर आयुक्त ने बताया कि छापे में कई प्रकार की अनियमितताएं सामने आई हैं। इस बात के भी प्रमाण मिले हैं कि रोलिंग मिल द्वारा बिना बिल के आयरन स्क्रेप की खरीदी कर उसका सरिया बनाकर बिना बिल के ही बेचा जा रहा है। परिवहन में भी अनियमितताएं पाई गई हैं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 May 2022

व्यापारी से 22 हजार की ठगी

व्यापारी से 22 हजार की ठगी  बिजली कंपनी का अधिकारी बनकर व्यापारी से 22 हजार की ठगी का मामला सामने आया है।  मीटर से छेड़छाड़ का आरोप लगाकर तीन लाख रुपये जुर्माने की धमकीदी थी।  मामला जबलपुर के बस स्टैंड की है ।  बिजली कंपनी का अधिकारी बनकर चार जालसाजों ने मिष्ठान विक्रेता से 22 हजार रुपये ठग लिए। कटंगी थाने में पीड़ित व्यापारी ने घटना की रिपोर्ट दर्ज कराई। एक जालसाज को पकड़ लिया गया है। बताया जा रहा है की मिठाई दुकान के कारखाने में कर्मचारी विमल पाल मौजूद था। तभी चार व्यक्ति वहां पहुंचे और स्वयं को बिजली विभाग का कर्मचारी बताया। चारों दुकान में लगे मीटर की जांच करने लगे। जिसके बाद कहा कि मीटर से छेड़छाड़ की गई है। प्रकरण दर्ज होने पर तीन लाख रुपये जुर्माना है।  इसके साथ ही तीन साल की सजा काप्रावधान है। फर्जी प्रकरण को दबाने के लिए   50 हजार रुपये  लिए कहा गया।  डरे सहमे व्यापारी ने 22 हजार रुपये चारों को दे दिए। लेकिन अगले दिन जैसे ही चारों ठग दूसरी दुकान पहुंचे। संचालक पवन सेन को चारों की हरकत पर संदेह हुआ।  जिसके बाद पवन चारों से विवाद करने लगा। तब तक अन्य व्यापारी वहां एकत्र हो गए। व्यापारियों की भीड़ देखकर तीन लोग भाग गए, परंतु मोहम्मद अब्दुल आसिफ खान पिता मोहम्मद अली खान 45 साल निवासी तिलक वाई सराफा खटीक मोहल्ला को पकड़ लिया गया। चंगुल में फंसे आसिफ ने स्वीकार कर लिया कि वह तीन अन्य लोगों के साथ व्यापारियों से ठगी कर रहा था, जिसके बाद उसे पकड़कर थाने ले जाया गया। पुलिस ने आसिफ व उसके साथियों के खिलाफ धोखाधड़ी समेत अन्य धाराओं के तहत एफआइआर दर्ज कर ली। व्यापारी की सूझ बूझ से व्यापारी खुद तो ठगी होने के शिकार से बचा ही  . उसने अन्य व्यापारियों को भी इससे बचा लिया।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 May 2022

jabalpur, Another youth dies, police recruitment race

जबलपुर। जबलपुर में पुलिस भर्ती के लिए हो रही दौड़ में बीमार पड़े एक और युवक की मौत हो गई है। दो मौतों और कई लडक़ों के बीमार पडऩे की खबरों को शासन ने गंभीरता से लिया है और पुलिस भर्ती परीक्षा को 2 जून तक स्थगित कर दिया गया है। गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने इसकी जानकारी दी। गृहमंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने ट्वीट करते हुए कहा- पुलिस भर्ती परीक्षा के फिजिकल टेस्ट को वर्तमान में भीषण गर्मी को देखते हुए 2 जून तक स्थगित किया गया है। यह परीक्षा ऐसे समय कराई जा रही है, जब पूरा प्रदेश भीषण गर्मी और लू की चपेट में है। गौरतलब है कि बालाघाट निवासी 29 साल के इंदरकुमार लिल्हारे 10 मई को 800 मीटर की दौड़ पूरी करने के बाद बेहोश हो गया था। उसके नाक-कान से खून निकल रहा था। उसे गंभीर हालत में शहर के एक प्राइवेट हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। वहां बुधवार देर रात उसकी मौत हो गई। इसके एक दिन पहले ही सिवनी निवासी 22 साल के नरेंद्र कुमार गौतम की भी दौड़ में शामिल होने के बाद मौत हो गई थी। आज भी फिजिकल एग्जाम में 179 कैंडिडेट शामिल हुए।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 May 2022

jabalpur, Goods train, derailment between ,Jabalpur-Itarsi

जबपुलर। मध्य प्रदेश में जबलपुर-इटारसी रेल खंड पर बनखेड़ी और पिपारिया के बीच कोयले से लदी एक मालगाड़ी का एक डिब्बा दोपहर करीब 12.25 पर बेपटरी हो गया। इस मालगाड़ी में 59 डिब्बे में हैं। घटना से लगभग चार घंटे रेल यातायात प्रभावित रहा। लभगभ चार घंटे की मशक्कत के बाद बेपटरी डिब्बे को पटरी पर लाया गया तब इस खंड में रेल यातायात शुरू हो सका। रविवार मालगाड़ी कोयला लेकर जबलपुर की ओर से आ रही थी। दोपहर जबलपुर रेल मंडल के बनखेड़ी और पिपरिया के बीच में कोयला लदी ट्रेन का एक डिब्बा बेपटरी हो गया। इससे जबलपुर से आने वाली ट्रेनें का यातायात प्रभावित हो गया। बताया गया कि इस मालगाड़ी के एक डब्बे के दो पहिए पटरी से उतर गए।   घटना के तुरंत बाद जबलपुर से इटारसी रेलवे ट्रैक कुछ देर के लिए बंद कर दिया गया था। पीछे से आ रही यात्री रेल एवं अन्य मालगाड़ियों को अलग अलग स्टेशन पर खड़ा करा दिया गया। वहीं, जब इटारसी से ब्रेकयान लाया गया। उतरे डिब्बे को पटरी पर लाकर ट्रैक चालू करने में लगभग चार घंटे लगे। इटारसी से जबलपुर आने और जाने वाली सभी ट्रेनें नियमित चल रही हैं। हादसे से ट्रेनों के चलने पर कोई फर्क नही पड़ा है। सिर्फ वे अपने गंतव्य पर आगे कुछ देरी से पहुंच रही हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  8 May 2022

jabalpur, EOW raid ,three locations ,cooperative society manager

जबलपुर। मध्य प्रदेश में आय से अधिक संपत्ति के मामले में ईओडब्ल्यू की कार्यवाही लगातार जारी है। इसी क्रम में शनिवार तडक़े ईओब्डल्यू की टीम ने सेवा सहकारी समिति बदौराकला जिला छतरपुर के सहायक समिति प्रबंधक प्राण सिंह उर्फ मुन्ना सिंह के ठिकानों पर छापे मारे। जबलपुर और सागर ईओडब्ल्यू की संयुक्त टीम ने कार्यवाही को अंजाम दिया। ईओडब्ल्यू को सहायक समिति प्रबंधक प्राण सिंह के पास आय से अधिक संपत्ति की शिकायत मिली थी। जिसके बाद ये कार्रवाई की जा रही है।   आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ जबलपुर और सागर की टीम ने शनिवार तडक़े एक साथ सहायक समिति प्रबंधक प्राण सिंह के तीन ठिकानों पेप्टेक सिटी देरी गांव सागर रोड छतरपुर, बारीगढ़ और जोगा गांव गौरीहार में छापे मारे। एसपी ईओडब्ल्यू जबलपुर देवेंद्र प्रताप सिंह के मुताबिक आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ को मिली शिकायत की जांच प्रकोष्ठ इकाई सागर द्वारा की गई थी। शिकायत जांच में मिला कि आरोपी प्राण सिंह उर्फ मुन्ना सिंह सहायक समिति प्रबंधक सेवा सहकारी समिति बदौराकला जिला छतरपुर ने इस नौकरी की अवधि में आय से 6 गुना से अधिक संपत्ति अर्जित की है। इस पुष्टि के बाद आरोपी प्राण सिंह के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम का प्रकरण दर्ज किया गया। जबलपुर ईओडब्ल्यू के डीएसपी एवी सिंह द्वारा विवेचना की जा रही है। संपत्ति का आंकलन अभी जारी है।   सर्च कार्रवाई के बाद संपत्ति का सही ब्योरा टीम पेश करेगी। जानकारी में बताया गया है कि अब तक की जांच में प्राण सिंह के आलीशान घर से 500 ग्राम से अधिक सोने के जेवर, नकदी, बैंक बैलेंस, चार पहिया वाहन, दो ट्रैक्टर, जेसीबी, जमीन संबंधी और प्लाट आदि के दस्तावेज मिलने की बात सामने आ रही है। हालांकि अधिकृत तौर पर टीम ने सर्चिंग के बाद आंकलन करके सही ब्यौरा पेश करने की बात कही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 May 2022

jabalpur, Female child, development officer ,arrested red handed

जबलपुर। लोकायुक्त पुलिस की टीम ने शुक्रवार बालाघाट में महिला एवं बाल विकास अधिकारी को पांच हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा है। महिला बाल विकास अधिकारी द्वारा शिकायतकर्ता ममता मरकाम से नियुक्ति संबंधी आदेश जारी करने के लिए रिश्वत मांगी गई थी।   लोकायुक्त निरीक्षक जीएस मर्सकोले ने बताया कि शिकायतकर्ता ममता पत्नी मंगल सिंह मरकाम ग्राम हिर्ररी तहसील बैहर बालाघाट में आँगनबाड़ी सहायिका है। उन्होंने पुलिस अधीक्षक लोकायुक्त को अपनी शिकायत में बताया था कि बैहर बालाघाट के परियोजना अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग दक्षदेव शर्मा नियुक्ति आदेश जारी करने के एवज में 10 हज़ार रुपये रिश्वत की माँग रहे हैं। शिकायत के बाद जबलपुर लोकायुक्त पुलिस की टीम ने शुक्रवार दोपहर 1.00 बजे महिला बाल विकास कार्यालय बैहर में अधिकारी दक्षदेव शर्मा को 5 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ लिया।   इस कार्यवाही में लोकायुक्त टीम ने महिला एवं बाल विकास विभाग भोपाल को सूचित कर विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज करते हुए आरोपित को मौके पर जमानत दे दी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 April 2022

jabalpur, MP High Court ,canceled the results

जबलपुर। मध्यप्रदेश हाई कोर्ट ने मप्र संघ लोक आयोग (एमपीपीएससी) की राज्य सेवा परीक्षा 2019 की प्रारंभिक और मुख्य परीक्षाओं के परिणामों को निरस्त कर दिया है। आरक्षण नियमों के विवाद के चलते हाई कोर्ट ने गुरुवार को यह फैसला दिया है। एमपीपीएससी 2019 परीक्षा एसडीएम और डीएसपी जैसे तीन सौ प्रमुख पदों के लिए ली गई है। इसके नतीजों को लेकर काफी समय से विवाद चल रहा था। अब दोबारा से इसके परिणाम जारी किए जाएंगे।   दरअसल, एमपीपीएससी 2019 की प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा के परिणाम को लेकर आरोप यह था कि विवादित नियमों के अंतर्गत पीएससी ने परिणाम जारी किए थे। आरक्षित वर्ग के होनहार छात्रों को सामान्य श्रेणी में शामिल न करने का नियम बना था। आरक्षण अधिनियम 1994 की धारा 4(4) के संशोधित अधिनियम को मध्यप्रदेश हाई कोर्ट में चुनौती दी गई थी। सरकार ने अदालत में अपना पक्ष रखा और विवादित नियम को वापस लेने की बात कही थी। इसके बावजूद 31 दिसम्बर 2021 को एमपीपीएससी 2019 मुख्य परीक्षा के परिणाम विवादित नियमों के अंतर्गत ही जारी कर दिए गए।   मप्र हाई कोर्ट के अधिवक्ता रामेश्वर सिंह ठाकुर के अनुसार उच्च न्यायालय में संशोधित नियम 17 फरवरी 2020 को असंवैधानिक करार दिया है। अदालत ने पीएससी भर्ती परीक्षा 2019 की प्रारंभिक व मुख्य परीक्षा 2019 को निरस्त कर पुराने नियमों के अनुसार पुनः परीक्षा परिणाम तैयार करने का आदेश दिया है। अधिवक्ता रामेश्वर सिंह ठाकुर और विनायक प्रसाद शाह ने आरक्षण अधिनियम 1994 की धारा 4 (4) तथा संशोधन 17 फरवरी 2020 सहित परीक्षा परिणाम को चुनौती दी थी। लगभग 60 छात्रों की ओर से याचिकाएं दायर की गई थीं।   इस मामले में काफी लंबे समय से सुनवाई चल रही थी। हाई कोर्ट ने गत 31 मार्च को ही सुनवाई पूरी कर फैसला सुरक्षित कर लिया था। इसके बाद हाई कोर्ट ने गुरुवार 89 पेज का विस्तृत आदेश जारी कर 2019 की परीक्षा के मुख्य और प्रारंभिक परीक्षा के परिणामों को निरस्त कर दिया है। कोर्ट ने इसी के साथ ही पुराने नियमों के अनुसार फिर से नया परीक्षा परिणाम तैयार करने का आदेश दिया है। प्रारंभिक परीक्षा का फिर से रिजल्ट बनेगा और इसमें जो अभ्यर्थी सफल होंगे, उसके अनुसार मुख्य परीक्षा कराई जाएगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 April 2022

jabalpur, Investigation , 719 crore scam ,former Chief Secretary Mohanty

जबलपुर। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्य सचिव एसआर मोहंती को उच्च न्यायालय जबलपुर से बड़ा झटका लगा है। उनके खिलाफ 719 करोड़ रुपये के उद्योग घोटाले की जांच जारी रहेगी। मामला कांग्रेस शासन काल में मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के कार्यकाल का है। उस वक्त एसआर मोहंती मप्र राज्य उद्योग विकास निगम में एमडी थे। शिवराज सिंह चौहान सरकार ने 2004 में उनके खिलाफ जांच शुरू की थी, जो कांग्रेस शाषित कमलनाथ सरकार ने 2019 के दौरान बंद कर दी गयी थी। कैट ने तत्कालीन कमलनाथ सरकार के आदेश पर रोक लगा रखी थी, इसलिए इस घोटाले की जांच आगे नहीं बढ़ पा रही थी। बुधवार को मामले में मप्र उच्च न्यायालय ने जांच जारी रखने का आदेश जारी किए। इसके बाद पूर्व मुख्य सचिव एस आर मोहंती की मुश्किलें एक बार फिर बढ़ गई हैं। बताया जा रहा है कि उन्होंने 719 करोड़ का लोन बिना गारंटी के बाँटा था इस उद्योग घोटाला में ईओडब्ल्यू-19 की विभिन्न कंपनियों के खिलाफ चार्जशीट दायर कर उनके खिलाफ जांच फिर शुरू होगी। बीते दिनों केंद्रीय प्रशासनिक अधिकरण (कैट) ने राज्य सरकार के आदेश पर रोक लगा दी थी। इससे उद्योग घोटाले में जारी अनुशासनात्मक कार्रवाई रोक दी गई थी। लेकिन आज उच्च न्यायालय जबलपुर में जस्टिस शील नागू और जस्टिस मनिंदर सिंह भट्टी की डिवीजन बेंच ने केंद्रीय प्रशासनिक अधिकरण कैट के उस आदेश को निरस्त कर दिया जिसमें मोहंती के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई पर रोक लगा दी गई थी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 April 2022

jabalpur, Jaya Prada , darshan ,Mata Tripura Sundari

जबलपुर। फिल्म अभिनेत्री और भाजपा नेत्री जया प्रदा चैत्र नवरात्र के पहले दिन जबलपुर पहुंची और यहां त्रिपुर सुंदरी मंदिर में माता के दर्शन किये। उन्होंने मंदिर में मत्था टेक माता का आशीर्वाद लिया। इसके अलावा उन्होंने यहां भेलाघाट स्थित धुआंधार जलप्रपात और पंचवटी का भ्रमण किया। भेड़ाघाट के मनमोहक नजारे को देखते ही उनके मुंह से निकल पड़ा वाव...ब्यूटीफुल।   फिल्म अभिनेत्री जयाप्रदा शनिवार को एक निजी प्रतिष्ठान के उद्घाटन समारोह में शामिल होने के लिए जबलपुर आई हैं। वे विमान द्वारा सुबह डुमना एयरपोर्ट पहुंची और यहां से सीधे उस होटल गईं, जहां उनके ठहरने का इंतजाम किया गया है। कुछ देर होटल में रुकने के बाद वह जबलपुर के प्रसिद्ध पर्यटन स्थलों की सैर करने के लिए निकलीं। सबसे पहले उन्होंने तेवर स्थित माता त्रिपुर सुंदरी के मंदिर पहुंचकर दर्शन किये। यहां उन्होंने माता से जीवन में सुख-समृद्धि का आशीर्वाद मांगा।   इस मौके पर जया प्रदा ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि माता का बुलावा ही था, जो आज मैं यहां आई हूं। जबलपुर आकर बहुत खुश हूं। उन्होंने बताया कि माता त्रिपुर सुंदरी से प्रार्थना की है कि पूरे देशवासी प्रसन्न रहें। कोविड का अब कोई साया न रहे।   फिल्म अभिनेत्री तेवर से सीधे भेड़ाघाट पहुंचीं। यहां उन्होंने धुआंधार जल प्रपात देखा। रोप-वे से वह धुआंधार के दूसरे किनारे तक भी गईं। वहां से वो पंचवटी पहुंचीं, जहां उन्होंने नौका विहार भी किया। मोटर बोट में जयाप्रदा को गाइड ने वे सारे स्पाट दिखाए जहां कालांतर में फिल्मों की सूटिंग हुईं थीं। इस दौरान उन्होंने गाइड की रनिंग कमेंट्री का भी लुत्फ उठाया। इस दौरान लोग उनकी एक झलक देखने के लिए लालायित दिखे।   पहले तो लोग समझ ही नहीं पाए कि वे जयाप्रदा ही हैं, लेकिन कुछ लोगों ने उन्हें पहचान लिया, जिसके बाद धुआंधार में उनकी मौजूदगी की खबर पूरे शहर में फैल गई और वहां भीड़ जुटनी शुरू हो गई। इस मौके पर मौजूद हर कोई उनकी एक झलक पाने का प्रयास करता रहा। कुछ लोगों ने उनके साथ फोटो खिंचवाई और सेल्फी ली। करीब डेढ़ घंटे भेड़ाघाट और पंचवटी में बिताने के बाद जयाप्रदा होटल लौट गईं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 April 2022

bhopal, Don

भोपाल। भारतीय जनता युवा मोर्चा की प्रदेश कार्यसमिति बैठक में शामिल होने प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वी.डी.शर्मा जबलपुर आए हुए हैं। मीडिया से चर्चा के दौरान उन्होंने इस बात पर हैरानी जताई कि राहुल गांधी कांग्रेस के यूथ आइकॉन कैसे हैं? भाजपा के प्रदेश अध्यगक्ष वीडी शर्मा ने कहा कि न जाने कैसे कांग्रेस के यूथ आइकॉन हैं राहुल गांधी। उन्होंने कहा कि वे यूथ आइकॉन हैं या नहीं, यह देश तय करेगा। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा जल्दी ही प्रदेश में यूथ कनेक्ट अभियान शुरू करने जा रहा है। इस अभियान के अंतर्गत समान विचारधारा वाले युवाओं को पार्टी से जोड़ा जाएगा। शर्मा ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी पीएम मोदी की अगुवाई में आगामी चुनावों में भी इतिहास रचेगी और पार्टी को जनता का समर्थन मिल रहा है। डायरेक्टर विवेक अग्निहोत्री की फिल्म 'द कश्मीर फाइल्स' पर अरविंद केजरीवाल के बयान को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए उन्होंने कहा कि ये वो लोग हैं, जिनको देश से प्रेम नहीं। उन्होंने कहा कि कश्मीर पीड़ा पर आधारित म्यूजियम भोपाल में खोला जा रहा है। इसे लेकर डायरेक्टर विवेक अग्निहोत्री ने मुख्यमंत्री शिवराज से चर्चा की है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 March 2022

jabalpur, EOW raid , residence doctor couple ,posted medical college

जबलपुर। जबलपुर में ईओडब्ल्यू की टीम ने बड़ी कार्यवाई की है। बुधवार सुबह करीब छह बजे ईओडब्ल्यू की टीम ने धनवंतरि नगर स्थित चिकित्सक दंपती डॉ. तृप्ति गुप्ता और अशोक गुप्ता के घर छापा मारा है। ईओडब्ल्यू ने यह कार्यवाई आय से अधिक संपत्ति की शिकायत मिलने के बाद की है। मकान को पहरे में लेते हुए टीम की सर्चिंग जारी है। प्रारंभिक जांच पड़ताल में वैध स्रोतों से अर्जित संपत्ति की तुलना में करीब 72 फीसद संपत्ति ज्यादा पाई गई है।   जानकारी के मुताबिक ईओडब्ल्यू एसपी देवेंद्र सिंह राजपूत को चिकित्सक दंपती के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति की शिकायत प्राप्त हुई थी। एसपी के निर्देश पर ईओडब्ल्यू निरीक्षक स्वर्ण जीत सिंह धामी ने शिकायत की जांच की। जांच में शिकायत सही पाए जाने के बाद बुधवार सुबह छापा मारा गया। छापे में दंपती के पास वैध स्रोत से प्राप्त आय के हिसाब से 3 करोड़ 15 लाख 13 हजार 308 रुपये होना चाहिए। जबकि उनके पास करीब 72 फीसद ज्यादा 5 करोड़ 44 लाख 22 हजार 521 रुपये की संपत्ति पता चला है। ईओडब्ल्यू ने दोनों के खिलाफ धारा 13 (1) बी. 13 (2) भ्रनिअ. 1988 संशोधित अधिनियम, 2018 के तहत आपराधिक प्रकरण दर्ज कर लिया है। प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना प्रेरणा पांडेय निरीक्षक द्वारा की जा रही है। कार्रवाई डीएसपी ईओडब्ल्यू मनजीत सिंह के नेतृत्व में की गई। ईओडब्ल्यू एसपी राजपूत ने बताया कि सर्च कार्रवाई एवं विवेचना के दौरान प्राप्त दस्तावेजों एवं साक्ष्यों के आधार पर आरोपितों की संपत्ती का आंकलन किया जा रहा है।   बता दें कि डाक्टर अशोक साहू और तृप्ति मेडिकल कालेज अस्पताल में नान क्लिनिकल पद पर सेवाएं दे रहे हैं। दोनों मेडिकल कालेज अस्पताल के बायोकेमिस्ट्री विभाग में पदस्थ हैं। डाक्टर तृप्ति गुप्ता मध्य प्रदेश आयुर्विज्ञान चिकित्सा विश्वविद्यालय में परीक्षा नियंत्रक और डिप्टी रजिस्ट्रार रह चुकी हैं। उनके कार्यकाल के दौरान विश्वविद्यालय में कई घोटाले सामने आए थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 March 2022

petrol price protest

युवक कांग्रेस ने पेट्रोल दाम की बनाई मानव आकृति    मध्य प्रदेश में पेट्रोल और डीजल के दाम लगातार बढ़ते जा रहे हैं | दाम बढ़ने से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है | जिसको लेकर  युवक कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने गोरखपुर पेट्रोल पंप के सामने जमकर प्रदर्शन किया |  बढ़ते हुए पेट्रोल डीजल के दामों के विरोध में युवक कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने विरोध जताया है |  युवक कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पेट्रोल की कीमत 116 रूपये की मानव आकृति बना कर अपना विरोध जताया. | बड़ी तादाद में जमा हुए युवक कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया कि | उसकी मनमानी की वजह से पेट्रोल और डीजल के दाम रोज बढ़ रहे हैं |  ऐसे में आम आदमी के लिए वाहन चलाना तो मुश्किल हो रहा है  |  लेकिन इस मूल्य वृद्धि की वजह से बेतहाशा महंगाई बढ़ रही है |  कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार से मांग की कि जल्दी ही इस मूल्यवृद्धि को रोका जाए | और पेट्रोलियम पदार्थों की कीमत को घटाया जाए |  जिससे आम आदमी को राहत मिल सके. | कार्यकर्ताओं ने पेट्रोलियम पदार्थों की बढ़ती कीमतों पर रोक ना लगने पर ग्यारह किलोमीटर लंबी मानव श्रृंखला बनाकर प्रदर्शन करने की तैयारी शुरू कर दी है |  काग्रेस नेता जतिन राज ने बताया कि पेट्रोलियम पदार्थों की मूल्य वृद्धि के खिलाफ चरणबद्ध प्रदर्शन किया जा रहा है  | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 October 2021

 ganja confiscated

उड़ीसा से लाया गया गांजा , 3 आरोपी गिरफ्तार   जबलपुर की बरेला थाना पुलिस क्राइम ब्रांच की टीम में बड़ी कार्रवाई करते हुए  एक वाहन से बहत्तर किलो अवैध गांजा बरामद किया है  | जिसकी कीमत करीब 14  लाख रुपये बताई जा रही है  |  पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपियों से पूछताछ शुरू कर दी है   जबलपुर में  क्राइम ब्रांच की टीम और बरेला थाना पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी कि  |  बरेला हाईवे में  नरसिंह मंदिर के पास से एक बोलेरो गाड़ी में कुछ लोग कुछ मादक पदार्थ लेकर जा रहे हैं  |  सूचना पर क्राइम ब्रांच की टीम और  बरेला थाना पुलिस ने घेराबंदी करते हुए वाहन को रोका |  जिसमें पुलिस को प्लास्टिक की बोरियों में 72 किलो गांजा  मिला  |  जिसकी कीमत लाखों में बताई गई है  |   वही पुलिस ने मौके से तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया |  एडिशनल एसपी संजय अग्रवाल ने बताया कि  |  प्रारंभिक पूछताछ में गिरफ्तार आरोपियों ने उड़ीसा से गांजा लाना कबूला है  |  गांजा कहां बेचा जाना था इसके लिए जानकारी जुटाई जा रही है  | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 July 2021

 Ajay Vishnoi

विश्नोई:यह जख्म महाकौशल वासी भूलेंगे नहीं   मध्य प्रदेश के पूर्व  मंत्री अजय विश्नोई ने सीएम  को स्वयं जबलपुर का प्रभार न  लिए जाने पर अफसोस जाहिर करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर तंज कसा और कहा पुराने घाव भरे नहीं कि नया घाव मिल गया |  पूर्व मंत्री अजय विश्नोई की मांग थी कि जबलपुर का प्रभार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान  स्वयं लें | प्रभारी मंत्रियों की लिस्ट में जबलपुर जिले का प्रभार लोक निर्माण मंत्री गोपाल भार्गव को दिया गया जिस पर पूर्व मंत्री ने नाराजगी जाहिर की भाजपा नेता और पाटन विधानसभा से विधायक अजय विश्नोई ने कहां की गोपाल भार्गव बहुत ही अनुभवी नेता हैं साथ ही मेरे अभिन्न मित्र भी हैं |  उनको जबलपुर का प्रभारी मंत्री बनाए जाने पर हार्दिक बधाई मैं देता हूं| . पर   मेरी अपेक्षा थी कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान स्वयं जिले का प्रभार लेते, मुख्यमंत्री जी ने जो घाव जबलपुर को दिए थे वह घाव अभी भी हरे हैं भरे नहीं हैं,मुख्यमंत्री जी ने मेरे निवेदन को स्वीकार  नहीं किया,बहरहाल जबलपुर जिले को जो भी प्रभारी मंत्री मिला हैं उनके साथ मिलकर जबलपुर के विकास के लिए काम किया जाएगा. |  पूर्व मंत्री अजय विश्नोई ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर तंज भी कसा है उन्होंने कहा कि शायद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के पास इतना समय नहीं है कि वह अलग से जबलपुर को समय दे सकें यही वजह थी कि शायद उन्होंने जबलपुर जिले का प्रभार लेने में रुचि नहीं दिखाई |  जिस तरह से अजय विश्नोई लगातार ट्वीट के जरिए अपनी सरकार को घेरने में जुटे हुए हैं  |  उससे साफ तौर पर उनकी नाराजगी जाहिर हो रही है,अजय विश्नोई ने कहा कि महाकौशल से किसी भी विधायक को मंत्री ना बनाकर मुख्यमंत्री जी ने घाव को हरा कर दिया है और यह जख्म महाकौशल वासी भूलेंगे नहीं. |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 July 2021

 Railway labor union

जोनल कार्यकारिणी में विभिन्न पदों पर की गई नियुक्ति   रेलवे इंस्टी्टयूट जबलपुर में वेस्ट सेंट्रल रेलवे मजदूर संघ का द्विवार्षिक अधिवेशन संपन्न हुआ |  समापन कार्यक्रम में  केंद्रीय कार्यसमिति वर्किंग कमेटी की बैठक आयोजित की गई  | इस दौरान जोनल कार्यकारिणी के चुनाव भी संपन्न् हुए और विभिन्न पदों पर नियुक्ति की गई  |  पश्चिम मध्य रेल मजदूर संघ के जोनल उपाध्यक्ष एवं सहायक सचिव मुख्य शाखा भोपाल अनिरुद्ध सोनी ने  बताया कि  जबलपुर में  आयोजित WCRMS के 10 वे द्विवार्षिक अधिवेशन में विभिन्न पदों मे नियुक्ति की गई है |  जिसमे  अंशु भटनागर को  जोनल उपाध्यक्ष चुना गया  | अंशु भटनागर  इस पद के साथ महिला विंग की जोनल अध्यक्षा और  मुख्य शाखा भोपाल की सचिव है |  जोनल कार्यकारिणी के चुनाव में डॉ आरपी भटनागर को अध्यक्ष तो अशोक शर्मा को महामंत्री की जिम्मेदारी फिर से मिली है  | वहीँ राजेश पांडेय को मंडल अध्यक्ष, आर के यादव  को मंडल सचिव चुना गया | अमित भटनागर व सीएम उपाध्याय को कार्यकारी अध्यक्ष, अनुज तिवारी को कोषाध्यक्ष, सतीश कुमार व सुशील वर्मा को संयुक्त महामंत्री नियुक्त किया गया है |  इसके साथ ही मंडल अध्यक्ष , और मंडल सचिवों की भी नियुक्ति की गई |  इस दौरान रेलवे के निजीकरण को लेकर विरोध भी जताया गया  | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 December 2020

   Procession of accused

मुख्य आरोपी सहित दो की गिरफ्तारी पर इनाम घोषित   जबलपुर में तालिबानी अंदाज में ऑटोचालक  को   बेरहमी से पीटने वाले दो आरोपियों का पुलिस ने जुलूस निकाला | वहीँ इस मामले में मुख्य आरोपी सहित दो  लोग अभी फरार हैं  | जिनकी गिरफ्तारी के लिए दस-दस हजार का इनाम घोषित किया गया है  |  शोभापुर  ब्रिज के पास एक्टिवा सवार युवतियों को टक्कर लगने के बाद ऑटो चालक की बेरहमी से पिटाई करने वाले दो आरोपियों  का पुलिस ने  जुलूस निकाला  | गौरतलब है की ऑटो से टक्कर के बाद लाल रंग की कार में आये अभिषेक   दुबे व उसके साथी चंदन सिंह ने ऑटो चालक की पिटाई की थी | इस घटना की रिपोर्ट ऑटो चालक द्वारा  थाने में दर्ज कराई गयी  |  ऑटो चालक की रिपोर्ट पर हत्या की कोशिस  सहित विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर पुलिस ने दो आरोपी अक्षय शिवहरे और  मनोज दुबे  को गिरफ्तार कर उनका   जुलूस निकाला |   प्रकरण के मुख्य आरोपी अभिषेक दुबे उर्फ गुड़ी और  चंदन सिंह की गिरफ्तारी के प्रयास जारी हैं |  घटना को लेकर क्षेत्र के लोग सहमे नजर आ रहे हैं |  सोशल मीडिया पर एक फरार आरोपी को लेकर पोस्ट वायरल की गयी है |  जिसमें बताया गया कि आरोपी हत्या के मामले में जेल से जमानत पर छूटकर आया है  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  15 October 2020

 Hooliganism

सरेआम ऐसी मारपीट की गई की रूह कांप गई नरोत्तम मिश्रा ने कहा एमपी में चलेगा कानून का राज   मामूली सड़क हादसे के बाद ऑटो चालक से सरेआम ऐसी मारपीट की गई कि देखने वालों की रूह कांप गई।  जो भी ओटो चालक को  बचाने गया  गुंडों ने  ने गालियां देकर उन्हें भी  धमकाया | इस मामले पर गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा मध्यप्रदेश में तालिबानी नहीं कानून का राज चलेगा।  गुंडागर्दी का यह वीडियो जबलपुर से सामने आया है |  मामला अधारताल थाना क्षेत्र के अंतर्गत शोभापुर का है।  इस घटना  का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल किया गया |  जिसने भी इसे देखा देखने वाले के  रोंगटे खड़े हो गए  | मामले के तूल पकड़ते ही पुलिस ने  दोनों गुंडों को गिरफ्तार कर लिया है |  प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार ऑटो चालक को बेहोश होने तक बेरहमी से पीटा गया  | बेहोशी की हालत में सेंटिंग की प्लेटें उस पर पटकी गईं।  ऑटो चालक को उठा-उठाकर सड़क पर पटका गया  | उसके बाद बाइक पर उल्टा लादकर हमलावर उसे थाने तक ले जाने के लिए रवाना हो गए |   वायरल वीडियो पर सोमवार को नजर पड़ते ही पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा ने हमलावरों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए  .वहीँ गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने इस घटना पर नाराजगी जाहिर की और कहा मध्यप्रदेश में कानून का राज चलेगा।  तालिबान का नहीं |  वायरल हुए वीडियो के बाद कांग्रेस नेता विवेक तन्खा ने ट्वीट कर आटो रिक्शा चालक को इलाज के लिए 10 हजार रुपए देने की बात कही है |  उन्होंन ट्वीट में लिखा है, 'कौन है यह दो दरिंदे  | इस तरह से ऑटो चालक या किसी को भी मारने का अधिकार इन युवकों को किसने दिया |  दुर्घटना होने पर भी ऐसा व्यवहार मंज़ूर नहीं |  यह छूट गुंडागर्दी ही है |  मेरा तरफ से ऑटो रिक्शा चालक को दस हजार रुपए इलाज के लिए दिये जाएंगे  | गुंडे बिना नंबर की बाइक व कार पर सवार होकर पहुंचे थे  |    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 October 2020

 Suicide

आत्महत्या कर रहे मरीज को डॉक्टर ने रोका     डॉक्टर को भगवान  रूप  यूँ ही नहीं कहा जाता   | मामला जबलपुर का है  जहाँ  एक कोरोना के मरीज ने आत्महत्या करने की कोशिश की | जिसके बाद अस्पताल के एक डॉक्टर ने अपनी जान को जोखिम में डालकर |  उस मरीज को आत्महत्या करने से रोक लिया  | लेकिन समाज में एक तबका आज भी ऐसा है जो डॉक्टर को भी नहीं बक्श रहा | कोरोना वायरस संक्रमण के दौरान डॉक्टर अपनी जान जोखिम में डालकर मरीजों का इलाज कर रहे हैं |  लेकिन इस दौरान वे कई ऐसे काम भी कर रहे हैं  .| जिसकी वजह से उनकी तारीफ हो रही है | ऐसा ही मामला  जबलपुर के मेडिकल अस्पताल के सुपर स्पेशलिटी वार्ड से आया है | जहां एक कोरोना मरीज तीसरी मंजिल से कूदकर आत्महत्या का प्रयास कर रहा था  |  लेकिन डॉक्टर की सूझबूझ ने उसे बचा लिया |  दरअसल, मरीज अस्पताल की खिड़की से  कूदने वाला ही था कि डॉक्टर की नजर उस पर पड़ गई  | और  डॉक्टर पीपीई किट में मरीज के पास पहुंच गया  | और उसकी जान बचा ली | इस दौरान अगर थोड़ी भी चूक होती तो डॉक्टर की भी जान जा सकती थी |  डॉक्टर के इस कदम की सभी सराहना कर रहे हैं | लेकिन कोरोना काल में डॉक्टरों पर हुए हमलों  ने समाज के एक हिस्से को बेनकाब भी किया है  | जहाँ वे भूल गए थे की यही डॉक्टर अपनी जान जोखिम में डालकर लोगों की जान बचा रहे हैं |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 August 2020

 Cannon test

फायरिंग रेंज में सारंग गन का हुआ परीक्षण   मध्यप्रदेश में पहली बार तोप का सफल परिक्षण किया गया |  खमरिया फायरिंग रेंज में जब सारंग तोप  की टेस्टिंग हुई तो सारा इलाका धमाके की आवाज से गूंज उठा |  मध्यप्रदेश के जबलपुर में मंगलवार को पहली बार तोप का परीक्षण हुआ  | खमरिया की फायरिंग रेंज में सारंग गन का परीक्षण किया गया  | सारंग गन की क्षमता 30 किलोमीटर से ज्यादा है  | परीक्षण में 4 फायर किए गए  | जिसमें 15 डिग्री, फिर 0 डिग्री, फिर 15 डिग्री पर फायर हुए   | अब यह गन सेना को सौंपी जाएगी  | सेना के अधिकारियों ने बताया कि लांग प्रूफ रेंज एलपीआर खमरिया में अपग्रेड सारंग तोप का पहला परीक्षण किया गया है | एलपीआर कमांडेंट निश्चय राऊत के नेतृत्व मे वीएफजे और जीसीएफ मे बनी सारंग तोप का परीक्षण किया  | तोप की मारक क्षमता 27 किलोमीटर से बड़कर 39 किलोमीटर की गई है  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 January 2020

  Electricity prices Less

फ्यूल कास्ट एडजस्टमेंट घटाएगी बिजली कंपनी   मध्य प्रदेश में बिजली के दाम जनवरी से कुछ कम होने की उम्मीद है |  तिमाही में तय होने वाला फ्यूल कास्ट एडजस्टमेंट  बिजली कंपनी 17 पैसे प्रति यूनिट  घटाने जा रही है | जिसका सीधा लाभ बिजली उपभोक्ताओं को मिलेगा |  मधुप्रदेश में बिजली कम्पनी तिमाही में तय होने वाला फ्यूल कास्ट एडजस्टमेंट  घटाने जा रही है  | घरेलू उपभोक्ता से अभी 30 पैसे प्रति यूनिट एफसीए वसूला जाता है, जो कंपनी अब 13 पैसे प्रति यूनिट करना चाह रही है  |  यानी 17 पैसे प्रति यूनिट की बचत होगी  |  ज्यादा खपत करने वाले उपभोक्ताओं को काफी राहत मिलेगी  | मध्य प्रदेश पावर मैनेजमेंट कंपनी   की ओर से दिसंबर में एफसीए को लेकर प्रस्ताव बनाया गया है  |  थर्मल पावर प्लांट में बिजली बनाने के लिए कोयला और तेल पर होने वाले खर्च के आधार पर तीन माह का एफसीए तय होता है  | कभी ये बढ़ता है तो कभी कम हो जाता है | अभी तक 30 पैसे प्रति यूनिट ये वसूला जा रहा था |  इस बार कंपनी के आंकलन में 13 पैसे प्रति यूनिट एफसीए तय हुआ है  | जनवरी के बिल में नया एफसीए लागू होगा |  अभी पावर मैनेजमेंट कंपनी के प्रस्ताव पर मध्य प्रदेश विद्युत नियामक आयोग की मंजूरी मिलनी बाकी है  |  अयोग की सहमति के बाद ही नई दरें प्रभावी होंगी |   अभी 300 यूनिट बिजली की खपत वाले उपभोक्ताओं को  करीब 90 रुपए एफसीए पर खर्च करना होता था  |  ये 30 पैसे प्रति यूनिट के दर से वसूला गया |  अब यदि 13 पैसे प्रति यूनिट एफसीए लागू हुआ तो 300 यूनिट खपत पर 39 रुपए ही देय होगा  और उपभोक्ता को  करीब 51 रुपए की बचत होगी |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 December 2019

 ACCIDENT

बस ट्रक की तक्कर में हुई  4 लोगों  की मौत   जबलपुर के बरगी बायपास पर बीती रात बस -ट्रक की सीधी भिंड़त हो गई  | इस भिड़ंत में चार लोगों की मौत हो गई  और 35 से ज्यादा लोग घायल हो गए   बरगी बायपास पर  ट्रक और यात्रियों से भरी बस में भीषण भिड़ंत हो गई  |  हादसे में 4 यात्रियों की मौत हो गई और 35 से अधिक लोग घायल हो गए  | घायलों को एंबुलेंस और निजी वाहनों से मेडिकल अस्पताल में भर्ती कराया गया है  | बरगी सीएसपी रवि चौहान ने बताया कि बस जबलपुर से बालाघाट जा रही थी  |  ट्रक और बस की आमने-सामने से भिड़ंत हुई   इस बस में 40 से ज्यादा यात्री सवार थे |  हादसे में मारे जाने वालों में दो पुरुष, एक महिला और एक बच्ची शामिल हैं  | बस और ट्रक के बीच हुई टक्कर की तेज आवाज सुनकर ग्रामीण वहां पहुंच गए थे, इसके साथ ही रास्ते गुजर रहे अन्य वाहन चालक भी रुक गए और घटना की सूचना पुलिस और एंबुलेंस को दी  |  उन्होंने घायलों को बाहर निकाला और उसने पूछा कि कहीं गंभीर चोट तो नहीं लगी है  | घटना में एक बच्ची बस में बुरी तरह से फंस गई थी  |   जिसे निकलने में पुलिस और ग्रामीणों को घंटों मशक्कत करनी पड़ी  |  किसी तरह बच्ची को निकाला गया, लेकिन उसने बस से बाहर आते ही दम तोड़ दिया  |             

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 December 2019

 WEATERNARI COLLAGE

सरकार की अर्थी निकलकर किया आंदोलन शुरू   जबलपुर वेटरनरी विश्वविद्यालय के छात्रों ने मध्यप्रदेश सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करते हुए सरकारी की अर्थी निकाली  | अपने आंदोलन का आगाज करते हुए छात्रों ने भूख हड़ताल भी शुरू कर दी है  |  अपनी उचित मांगें पूरी न होते देख  वेटरनरी विश्वविद्यालय के छात्रों  ने अपना क्रमबद्ध आंदोलन शुरू कर दिया है  | छात्रों ने आरोप लगाया कि छात्रों के हित में सरकार कोई निर्णय नहीं ले रही है  | उन्होंने कहा कि जब तक हमारी मांगे नहीं मानी जाती हमारा आंदोलन और अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल जारी रहेगी  |  जबलपुर के साथ महू और रीवा वेटरनरी कॉलेज के छात्रों ने भी प्रदर्शन किया  |  छात्र लंबे समय से अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 September 2019

 RAKESH NATH SINGH

राकेश सिंह के निशाने पर कमलनाथ   जबलपुर के सांसद और मध्यप्रदेश भाजपा के अध्यक्ष राकेश सिंह ने मुख्यमंत्री कमलनाथ पर निशाना साधते हुए उन्हें मध्यप्रदेश के इतिहास का सबसे असहाय मुख्यमंत्री बताया  | उन्होंने कहा  कि इससे पहले प्रदेश में कोई भी सीएम इतना असहाय नहीं रहा, जितने कमलनाथ हैं |  एमपी बीजेपी अध्यक्ष राकेश सिंह ने कहा कमलनाथ घोषित रूप से मुख्यमंत्री है लेकिन कांग्रेस के और बड़े नेता, वो भी इस प्रयास में हैं कि कमलनाथ ज्यादा समय तक सीएम न रहें |  उधर कमलनाथ इस प्रयास हैं कि वे मुख्यमंत्री बने रहें  | राकेश सिंह ने कहा कि हम पहले से कहते आ रहे है कि इस सरकार ने प्रदेश में एक ही उद्योग स्थापित किया है और वो है तबादला उद्योग  | अब यही बात कांग्रेस के मंत्री और विधायक भी कह रहे हैं |   ऐसे में कमलनाथ को खुद ही सीएम पद से इस्तीफा देकर कांग्रेस आलाकमान ने यह कहना चाहिए कि वो जिसे चाहे प्रदेश का सीएम बनाएं |   लेकिन मैं चुनौती देता हूं कि कमलनाथ कभी ऐसा नहीं कर पाएंगे, अगर वे ऐसा करेंगे तो उनकी ही पार्टी के लोग इस सरकार को चलने नहीं देंगे |  भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि हमने पहले ही कहा है कि हम सरकार नहीं गिराएंगे  | लेकिन उनके भीतर की जिस अंतर्कलह की हम बात करते हैं वो सामने है  | उनके तमाम मंत्री और विधायक ही अब सरकार पर सवाल उठाने लगे हैं  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 September 2019

 HATYA

अज्ञात हत्यारों की तलाश में पुलिस    जबलपुर में अपराध थमने का नाम नहीं ले रहे हैं  | अब घर में घुसकर बदमाशों  ने एक बुजुर्ग की हत्या कर दी  |  माना जा रहा है घर में लूटपाट की नियत से घुसे बदमाशों ने इस वारदात को अंजाम दिया है  |  माड़ोताल  की कृष्णा कॉलनी में एक आश्रम नुमा मकान बुजुर्ग की हत्या कर दी गई |  धारदार  हथियार से बुजुर्ग के ऊपर कई वार किये गए  | कृष्णा कॉलनी में रहने वाले 60 वर्षीय बुजुर्ग विष्णु दयाल सोनी  अपनी पत्नी के साथ राधा कृष्ण आश्रम नाम के घर मे रहते थे  |   उनके बेटे बहू अलग रहते थे | जब विष्णु दयाल का बेटा अपने पिता से मिलने शाम को घर गया तो उसके पिता विष्णु दयाल अंदर के कमरे में  जमीन पर पड़े दिखाई दिए | औऱ घर का पूरा समान बिखरा हुआ था | आनन फानन में बेटे ने पुलिस को सूचना दी मौके पर पहुची पुलिस ने घर मे हुई वारदात की बारीकी से जांच करते हुए हत्या करने वाले आज्ञत आरोपी की तलाश जारी कर दी है  |  माड़ोताल कृष्णा कॉलोनी में घर के अंदर हुई बुजुर्ग की हत्या के बारे में सीएसपी दीपक मिश्रा ने बताया कि विष्णु दयाल सोनी अपने बेटों से अलग मकान में रहते थे उनकी पत्नी बेटो के घर गयी हुई थी | वही जब शाम को बेटा अपने पिता से मिलने गया तो वो घर के अंदर मृत अवस्था में मिले,, वही मृतक के बदन में चोट के निशान बताते हैं की बजुर्ग ने हत्या करने वालों के साथ संघर्ष भी किया  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 August 2019

 HOOKAH BAR RAID

हुक्का पीते मिले नाबालिग बच्चे -बच्चियां    नशे का कारोबार प्रदेश में तेजी से फल फूल रहा है  | पुलिस की टीम ने एक हुक्का बार पर बड़ी  छापामार कार्यवाई की   |  जहाँ नाबालिग बच्चे बच्चियां हुक्का पीते हुए पाए गए  | पुलिस ने हुक्का बार संचालक को गिरफ्तार कर लिया है  |  जबलपुर मदन महल के चन्द्रिका टावर स्थित हुक्का बार पर पुलिस का छापामार कार्यवाई की   | हुक्का बार में  नशे के कई फ्लेवर परोसे जा रहे थे  |  बताया जाता है कि हुक्का बार लंबे समय से अवैध  रूप से संचालित हो रहा था    | कई नाबालिक बच्चे बच्चियां हुक्का पीते हुए पकडे  गए  | बिल्डिंग की तीसरी  मंजिल में  90 एम एम हुक्का बार रिशु दुबे नामक युवक के अवैध  रूप से संचालित कर रहा था  |   पुलिस ने हुक्का बार चलाने वाले  रिशु दुबे  को मौके से गिरिफ्तार कर लिया है  |  नाबालिक बच्चो के माता पिता को बुलाकर  |  बच्चो को उनके सुपुर्द  किया गया |       

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 August 2019

 MURDAR

भीड़ भरे इलाके में की गई हत्या    बाइक सवार दो  अज्ञात युवको ने  एक युवक की चाकू मारकर हत्या कर दी  | और फरार हो गए  | भीड़ भाड़ वाले इलाके में इस तरह की घटना ने  पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था की पोल खोल दी   |  पुलिस ने मामल दर्ज कर आरोपियों की तलाश  शुरू कर दी है  |  जबलपुर में  संजीवनी नगर थाना क्षेत्र  में  सरेराह अज्ञात युवकों  ने एक युवक की चाकू मारकर हत्या कर दी   | बताया जा रहा है कि जिस युवक पर चाकू से हमला हुआ वो यादव कॉलोनी का  रहने वाला था   |  उसका नाम मगन पटेल है   | जो किसी काम से शाहीनका दुर्गामंदिर के पास गया था   | और अपनी एक्टिवा पर  बैठा था   | तभी बाइक से  दो युवक आये और उस पर दनादन चाकू से वार कर  दिया  ...  और भाग निकले   |  प्रत्यक्षदर्शियों  का कहना है कि युवक के साथ  जिस तरह से पूरी घटना हुई  |  सब स्तब्ध रह गए   |  जब तक हमलावरों को पकड़ने की कोशिश  की गई वे भाग चुके थे   | वही दूसरी ओर पुलिस का कहना है कि उन्हें सूचना मिली थी कि | कोई एक्सीडेंट हो गया है,  जिसमे एक युवक गंभीर रूप से घायल है   |  जब पुलिस मौके पर पहुची तो एक युवक सड़क पर जख्मी हालत में पड़ा था  | जिसे उपचार के लिए  भिजवाया गया   | भीड़ भाड़ वाले इलाके में ही इस तरह की घटना से क्षेत्र में डर  का माहौल है | मृतक के चाचा ने बताया कि दो दिन पूर्व ही मगन की पत्नी  को डिलीवरी हुई थी   | जिसको लेकर मगन बहुत खुश था   | सभी को मिठाईया बांट रहा था   |  वही इस मामले में अति पुलिस अधीक्षक संजीव उइके ने बताया कि   | आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिए गया है   |  आरोपियों की तलाश  की जा रही है   | जल्द ही आरोपियों को गिरिफ्तार कर लिया जयगा   | आये दिन हो रही हत्या से लोगों में डर  का माहौल बनता जा रहा है  | एक तरफ सरकार है जो तबादले में व्यस्त है  | दूसरी ओर पुलिस जो लोगों को सुरक्षा तक मुहैया नहीं करा पा रही  | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 August 2019

 CHAPAMAR

स्पाट फाइन कर 46 हजार का जुर्माना   दूषित खाद्य सामग्री पर रोक लगाने नगर निगम और  स्वास्थ्य विभाग की अलग-अलग टीम ने जबलपुर  में छापामार कार्रवाई की  होटल में बन रही खाद्य सामग्री  के किचन  को देखकर आपके होश उड़ जायेंगे   किचन में सीलन भरी गंदगी के बीच मिठाई व अन्य खाद्य सामग्री बनाई जा रही थी   किचन में गंदगी पाए जाने पर अधिकारीयों ने  चालानी कार्रवाई कर जुर्माना भी वसूला   जबलपुर में  दूषित खाद्य सामग्री पर रोक लगाने  के लिए  नगर निगम और   स्वास्थ्य विभाग की अलग-अलग टीम ने शहर के 6 होटल, बेकरी, डेरी में छापामार कार्रवाई की   अधिकारीयों  ने जब  होटल, बेकरी के किचन देखे तो दंग रह गए   मिठाइयां ऐसी जगह बनाई जा रही थी जिसको देखकर आपके भी होश उड़ जाएंगे   किचन में सीलन भरी गंदगी के बीच मिठाई व अन्य खाद्य सामग्री बनाई जा रही थी   अधिकारियों ने होटल-बेकरी संचालकों पर स्पाट फाइन कर 46 हजार रुपए का जुर्माना वसूला    सहायक स्वास्थ्य अधिकारी अमित जैन की अगुवाई में  गोलबाजार स्थित चन्द्रकला स्वीट्स, हीरा स्वीट्स होटल और दीनदयाल चौक स्थित राम डेरी में छापा मारा गया   इसी तरह सहायक स्वास्थ्य अधिकारी आरपी गुप्ता की टीम ने नौदराब्रिज स्थित हीरा स्वीट्स, गौरव बेकरी, मनोहर बेकरी में दबिश दी   किचन में गंदगी पाए जाने पर चालानी कार्रवाई कर अधिकारीयों  ने होटल-बेकरी संचालकों पर स्पाट फाइन कर 46 हजार रुपए का जुर्माना वसूला         

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 August 2019

 hungama

हिन्दू संगठनों ने किया हंगामा    जबलपुर के ग्वारीघाट इलाके के एक मकान में अनैतिक काम होने की जानकारी मिलने पर हिन्दू संगठनों ने जमकर हंगामा किया  जिसके बाद पुलिस ने संदिग्ध स्थिति में कुछ युवक -युवतियों को पकड़ा   गवरीघाट  थाना अंतर्गत बर्मन मोहल्ले के एक घर में अनैतिक कार्य होने की जानकारी लगने के बाद  विहिप और बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने जमकर हंगामा किया, इस मामले की जानकारी कार्यकर्ताओ ने पुलिस को दी जिसके बाद पुलिस का अमला मौके पर  पहुंचा  बजरंग दल के कार्यकर्ताओं का आरोप है कि ग्वारीघाट एक पवित्र तीर्थ स्थल है  जंहा अनैतिक कार्य होने की जानकारी कई दिनों से उन्हें मिल रही थी  स जानकारी के चलते जब वह लोग मौके पर पहुंचे तो एक घर में कुछ युवक और युवतियों को संदिग्ध हालात में पाया  प्रदर्शनकारियों ने  पुलिस को भी इसकी जानकारी दी इस दौरान एक युवक ने उन पर हमला करने की कोशिश भी की   हालांकि पुलिस ने  मौके पर पहुचने के बाद कुछ युवतियों और युवको को पकड़ा  और पुलिस स्टेशन ले गए  पुलिस पूरे मामले की जाँच कर रही है   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 July 2019

 DHOKHA OYO

एक साल से होटल मालिकों को नही दिया पैसा    जबलपुर होटल एसोसिएशन ने  होटल बुक करने वाली कंपनी ओयो की शिकायत पुलिस से की है   होटल मालिकों का कहना है ओयो कस्टमर से पैसा वसूलने के बाद भी पिछले एक साल से होटल मालिकों को भुगतान नहीं कर रहा है  होटल एसोसिएशन ने ओयो के खिलाफ मामला दर्ज करने के लिए जबलपुर के पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन भी दिया    होटल एसोसिएशन जबलपुर के सदस्यों और होटल मालिकों  ने oyo कंपनी द्वारा होटल मालिकों के साथ की जा रही धोखाधड़ी को लेकर पुलिस कप्तान अमित सिंह को ज्ञापन सौपा   होटल मालिकों ने  बताया  कि पिछले एक वर्ष से होटल मालिकों को  उनका भुगतना नहीं किया गया है और न ही अनुबंध की शर्तों का पालन किया जा रहा है  इसके बाद अनौपचारिक पैनाल्टी एवं चार्जेस होटल मालिकों के उपर लगाये जा रहे हैं   होटल मालिकों ने कहा कि oyo कंपनी जबलपुर शहर और मध्यप्रदेश के साथ देशभर  में होटल मालिकों के साथ कुछ शर्ताे के आधार पर अनुबंध कर ऑनलाइन बुकिंग देने का वादा करती है   जिसमें बाद में कंपनी द्वारा सीधे ऑनलाइन डिस्काउंट देकर कस्टमर से पैसे अपने खाते में डलवा लिया जाता है लेकिन आज तक हमारा भुगतना नहीं किया गया   पुलिस अधीक्षक ने पूरा मामला समझने के बाद  मामले में उचित कार्यवाही का अश्वासन दिया है    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 July 2019

 KHOONI SANGHARSH

फोटो खींचने की बात पर हुआ था विवाद     खेलते वक्त बच्चे की दूसरे बच्चे ने फोटो खींच ली तो दादी को नागवार गुजरी  बात थाने पहुंची पुलिस ने दोनों पक्षों को समझा कर घर भेज दिया   मगर दादी शांत नहीं हुई और बड़े लड़के से पडोसी पर चाकू से हमला करवा दिया     जबलपुर के बेलबाग थाना में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसे सुन कर सभी हैरान हो गए   दरसल बच्चे मोहल्ले में खेल रहे थे  इस दौरान एक बच्चे ने खेल - खेल में दूसरे बच्चे की फोटो खींच ली   जिसकी भनक दूसरे बच्चे की दादी को लग गई   जिसके चलते मामला थाने जा पहुंचा   पुलिस ने इस मामले में दोनों पक्षों को सुनकर सुलह करवा दी    लेकिन मामला यहीं शांत नहीं हुआ   बात इतनी बिगड़ गई की एक बच्चे की दादी ने अपने बड़े लड़कों को बोल कर पड़ोस में रहने वाले अनिल कोरी के ऊपर चाकू  से हमला करवा दिया    वहीं पड़ोसी का कहना है   कि आए दिन पड़ोस में रहने वाली दादी अपने बच्चों को बहला-फुसलाकर पड़ोस में रहने वाले लोगों को परेशान करती है पुलिस ने मामला कायम कर एक आरोपी को मौके से गिरफ्तार कर लिया है   दो आरोपी अभी भी फरार है जिनकी पुलिस तलाश कर रही है  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 July 2019

 LOOT

हमलावरों की गिरफ्तारी के लिए घेरा एसपी कार्यालय       व्यापारी पर ताबड़तोड़ चाकुओं से हमला करके  लूट करने वाले अज्ञात हमलावर भाग गए और उन्हें अभी तक पुलिस ढूंढ नहीं पाई हैं। वंही दूसरी तरफ व्यापारी भी अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच झूल रहा हैं  जिसकी वजह से व्यापारिओं ने  आक्रोश में हैं। व्यापारियों ने पुलिस के सुस्त रवैये के खिलाफ और हमलावरों की गिरफ्तारी के लिए एसपी कार्यालय का घेराव किया।   जयंती टॉकीज स्थित मोबाइल दुकान संचालक एवं माता वैष्णो सेवा समिति के प्रमुख सदस्य   संजय मंगतानी के ऊपर अज्ञात आधा दर्जन से अधिक गुण्डों ने  तैयब अली पेट्रोलपंप के पास चाकूओं  से ताबड़तोड़ जानलेवा हमला कर किया था   हमले में घायल व्यापारी संजय को निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया   जहां वो जिंदगी और मौत के बिच जूझ रहे है  लेकिन पुलिस ने अब तक आरोपियों पर कोई कार्रवाई नहीं की है। आरोपी पुलिस की गिरफ्त से बहार हैं  इन अज्ञात हमलावरों की गिरफ्तारी के लिए आज व्यापारियों ने पुलिस अधीक्षक कार्यालय का घेराव कर दिया।  उनका कहना था  कि व्यापारी पर जानलेवा हमला किया गया परंतु पुलिस ने मामूली धाराओं के तहत प्रकरण दर्ज किया  और अभी तक हमलावर फरार है  आरोपियों पर 307 एवं लूट की धारायें लगाई जाये   अन्यथा व्यापारी समाज तीव्र आंदोलन करने पर मजबूर हों जायेगा                

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 July 2019

 NAVODAYA school

सुसाइड नोट में लिखा मैं नर्क में हूँ    डिंडोरी के जबलपुर रोड़ पर संचालित नवोदय स्कूल में 6वीं की छात्रा ने फांसी लगा कर अपनी जान दे दी  इस छात्रा ने अपने सुसाइट नोट में लिखा है कि मैं शिक्षक बनना चाहती हूँ  लेकिन लगत है मैं नर्क में आ गई हूँ  पुलिस इस मामले की जाँच में जुट गई है    नवोदय में छात्रा की खुदकशी की  सूचना मिलने पर कलेक्टर, एस पी सहित बड़ी संख्या में पुलिस  मौके पर पहुंची   छात्रा मधु मरावी की उम्र महज 13 वर्ष  है   छात्रा के पास से एक पत्र भी मिला है  छात्रा ने सुसाइड नोट में लिखा है कि नवोदय विद्यालय नर्क है  बच्ची की खुदकुशी के मामले में पिता ने आशंका जताई है  उनका कहना है कि जिस तरह से रस्सी बंधी हुई थी और जिस हाईट पर रस्सी बंधी हुई थी, ऐसा वह कर ही नहीं सकती   पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर मामले की जांच शुरू कर दी है   नवोदय स्कूल के  प्रिंसिपल का कहना है कि परिवार से दूर होने की वजह से उसने यह कदम उठाया है  जबकि बच्ची के पिता कहना है कि कुछ दिन पहले ही उसे स्कूल छोड़कर गए थे और वह यहां आने के लिए काफी उत्साहित थी  छात्रा के पास मिले पत्र से पता चलता है वह पढ़लिखकर शिक्षक बनना चाहती थी  लेकिन अचानक उसके साथ ऐसा क्या हुआ कि उसे नवोदय स्कूल नर्क लगने लगा  पुलिस अब हर ऐंगल से इस मामले की तफ्तीश में जुट गई है       

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 July 2019

 AWARA JANWAR

एक्सीडेंट रोकने के लिए रेडियम के पट्टे   चौपायों और लोगों को एक्सीडेंट से बचाने के लिए एक व्यवसायी और ट्रेफिक पुलिस ने जबलपुर में अनोखा अभियान शुरू किया है   ये जानवर और लोग सुरक्षित रहें इसके लिए इनके गले और सींगों पर रेडियम के पट्टे बांधे जा रहे हैं  ताकि अँधेरे में भी इनकी उपस्थिति का पता चल सके   जबलपुर  की सड़कों पर घूमने वाले आवारा मवेशियों  पर एक अनोखा प्रयोग शुरू किया गया है   यातायात पुलिस और शहर के एक व्यवसायी ने मिलकर इस अनोखे प्रयोग की शुरुआत की है   इस प्रयोग में इन जानवरों के गले और सींगों पर रेडियम के पट्टे बांधकर रात में सड़को पर होने वाली दुर्घटना को रोकने का प्रयास किया जा रहा है   इस कार्य के लिए तीन मोबाइल वैनों को भी चलाया जाएगा   ये मोबाइल वैन सड़को पर घूमने वाले जानवरो के गले और सिंगो पर रेडियम के पट्टे को बांधने का काम करेंगी   यातायात पुलिस का कहना है कि जिले में  सड़कों पर होने वाली दुर्घटना से 400 लोगों की जान जाती है  इसका एक कारण रात में सड़कों पर घूमने वाले जानवर होते हैं   जिन्हें वाहन चालक नही देख पाते और दुर्घटना के शिकार हो जाते है  जानवरो के गले मे रेडियम के पट्टे बांधने से वाहन चालक को दूर से ही जानवरो के बारे में पता चल जाएगा और दुर्घटना होने से बच जाएगी   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 July 2019

 MAUT

शराब के नशे में बच्ची को पटक-पटक कर मार डाला    एक पिता रक्षक से भक्षक बन गया  और अपनी ही डेढ़ साल की  अबोध बच्ची के बच्ची को शराब के नशे में जमीन पर पटक-पटक कर माल डाला  और अपनी इस करतूत को छिपाने के लिए बच्ची के शव को नाल में फेंक दिया  पिता के इस घृणित कृत का खुलासा   उसी की 5 साल की बेटी ने किया    जबलपुर माढ़ोताल थानांतर्गत दीनदयाल चौक में  एक हैवान बाप ने अपनी ही डेढ़ साल की  बच्ची को मौत के घाट उतार दिया  मिली जानकारी के अनुसार  अजय  अपनी 3 बच्चियों ओर पत्नी किरण के साथ दीनदयाल चौक स्थित फुटपाथ पर रहता था  अजय नशे का आदि होने के कारण  आये दिन अपनी बीवी से झगड़ा करता था वही किरण को चौथी डिलीवरी के चलते 3 दिन पूर्व  ही अस्पताल में भर्ती किया गया था  रात में अजय ने जमकर शराब पी औऱ घर आया घर मे अजय की 5 साल की बेटी और डेढ़ साल की मासूम बच्ची अकेली थी  अचानक से अजय ने अपनी डेढ़ साल की  मासूम बच्ची को उठाकर जमीन में पटकन शुरू कर दिया  जिससे मौके पर ही मासूम की मौत हो गयी  नशे में चूर हैवान बाप ने अपने इस घिनोने कृत्य को छुपाने के लिए बच्ची की लाश को घर के सामने बने नाले में फेंक दिया  सुबह जब अजय की साली घर आयी तो 5 साल की बच्ची ने अपनी मौसी गीता को सारी बाते बतायी  वही गीता ने तत्काल थाने पहुँच कर अपने जीजा अजय की हैवानियत के बारे में बताया  मौके पर पहुची पुलिस ने नाले से बच्ची के शव को बरामद कर आरोपी अजय को गिरिफ्तार कर लिया हैं 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 July 2019

 SAGAR MEDICAL COLLAGE

प्रबंधन पर मनमानी करने का आरोप    जबलपुर सुख सागर मेडिकल कॉलेज में प्रबंधन की मनमानी के चलते छत्रों को कॉलेज के अंदर नहीं घुसने दिया जा रहा  प्रबंधन ने   गेट पर नोटिस लगाकर परिसर में विद्यार्थियों को  घुसने से मना कर दिया  छात्रों का आरोप है की कॉलेज में मेडिकल कौंसिल ऑफ़ इंडिया के नियमो का पालन नहीं किया जा रहा   कॉलेज में ना तो प्रोफेसर है ना ही क्लेरिकल  स्टाफ है   जबलपुर में सुख सागर मेडिकल कॉलेज प्रबंधक और विद्यार्थियों के बीच टकरार  देखने को मिली प्रबंधन ने छात्रों को  कॉलेज परिसर में घुसने से मना कर दिया है जिसको लेकर कॉलेज में पढ़ने वाले सैकड़ो विद्यार्थियों ने कॉलेज के खिलाफ  मोर्चा खोल दिया विद्यार्थियों का आरोप है कि कॉलेज एमसीआई के नियमो का पालन नही कर रहा है  यहां न तो पढ़ाने वाले प्रोफेसर है न क्लेरिकल स्टाफ कि कोई टीम है कॉलेज प्रबंधन विद्यार्थियों को धमकी दे रहा है कि जितना स्टाफ है उसी से तो पढ़ना पड़ेगा  वही दूसरी प्रबंधन का कहना है की छात्रों द्वारा फीस नहीं भरी गई है और स्टाफ से बदतमीजी की जा रही है   विद्यार्थियों ने आरोप लगे है की  कॉलेज प्रबंधन 2 से 3 लाख रुपये प्रति सेमेस्ट फीस वसूल रहा है , लेकिन सुविधा को नाम पर कोई व्यवस्थाएं नही दी जा रही विद्यार्थी  रोज कॉलेज आते है  , लेकिन घण्टों गेट पर इंतजार करना पडता है  विद्यार्थियों ने कॉलेज की अव्यवस्थाओं को लेकर डीएमई से शिकायत की है   डीएमई ने  शीघ्र कार्यवाही का आश्वासन दिया है         

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 July 2019

MAUT

नहीं आता था तैरना,डूबने से हुआ हादसा    नहर में नहाने गए  एक किशोर के डूबने से मौत हो गई  3 घंटे की मशक्कत के बाद मृतक का शव बरामद हो पाया  पुलिस ने मर्ग कायम कर जाँच शुरू कर दी है   जबलपुर में  ग्राम सोनपुर के पास स्थित एक  नहर में   किशोर की डूबने से मौत हो गई    मृतक किशोर का नाम नवीन कामले बताया जा रहा है जो कि अपने दो दोस्तों के साथ नहर में नहाने गया था   तीनों किशोर जब नहा रहे थे तभी अचानक ही नवीन गहरे पानी में चला गया और देखते ही देखते डूब गया  नवीन के डूबने की खबर  गांव के लोगों ने तुरंत ही खमरिया थाना पुलिस को  दी  जिसके बाद  होमगार्ड के गोताखोरों को बुलाया गया    करीब 3 घंटे की मशक्कत के बाद नवीन का शव मिल पाया   बताया जा रहा है कि तीनों ही किशोर से तैरते नहीं बनता था, बावजूद इसके वह नहर में नहाने गए थे  नवीन के पिता ने बताया कि वह आईटीआई के साथ साथ 12वीं की भी तैयारी कर रहा था   मृतक नवीन अपने मां बाप का इकलौता बेटा था   फिलहाल पुलिस ने मर्ग कायम कर घटना की जांच शुरू कर दी है         

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 July 2019

 SUBHAS  CHANDRA

घर के सामन की कर रहे हैं मांग    मध्यप्रदेश की सबसे बड़ी  नेताजी सुभाष चन्द्र बोस  केंद्रीय कारागार  में सैकड़ों कैदियों ने घर से निजी सामान लाने को लेकर अनशन कर दिया  कैदियों  की मांग है की दूसरे  जेल की तरह इस जेल में भी घर से निजी सामान लाने की इजाजत दी जाय  हालाँकि जेल प्रशासन ने अनशन किये जाने की बात को नकार दिया है लेकिन प्रशासन ने यह भी कहा की कैदी जेल की खाद्य सामग्री नहीं ले रहे   मध्यप्रदेश की सबसे बड़ी जेल कहे जाने वाले नेताजी सुभाष चंद्र बोस केंद्रीय कारागार जबलपुर के कैदियों ने  जेल में अनशन कर रखा है  कैदियों के अनशन किये जाने के बाद से जेल प्रबंधन सकते में आ गया है  जेल में सजा काट रहे कैदी जेल प्रबंधन से दूसरे जिलों की भांति जबलपुर में भी  अपने घर से निजी सामान लाने की जिद कर रहे   कैदियों का तर्क है कि दूसरे जिलों की जेलों में निजी सामान  घर से लाने के लिए शासन ने जेलों को आदेश जारी किए है, लेकिन  केंद्रीय कारागार में शासन के आदेशों का पालन नही किया जा रहा   जेल  प्रशासन  का कहना है नवंबर 2016 में हुए  भोपाल  कांड के बाद से शासन ने जेलों में कैदियों के परिजनो से निजी सामग्री लेना बंद कर दिया है  शासन के पास से हमारे पास ऐसा कोई आदेश नही आया है जिसमे कैदियों के परिजनो से निजी सामान लेने का जिक्र किया गया हो   जेल प्रशासन कैदियों  द्वारा अनशन किये जाने की बात को नकार रहा है लेकिन वो ये भी कह रहा है कैदियों ने जेल में मिलने वाली खाद्य सामग्री को लेने से मना कर दिया है                  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 July 2019

 kamalnath

बिजली बिलों से हो रही है सरकार की किरकिरी     बिजली गुल होने के  मुद्दे लेकर कमलनाथ सरकार शुरू से ही विवादों में थी  लेकिन अब  प्रदेश में  बिजली विभाग  के मनमाना  बिल देने से उपभोक्ताओं को खासी परेशानी का सामना करना पड़  रहा है  विभाग ने गरीब उपभोक्ताओं को भी तीन से पांच  हजार तक के बिल थमा दिए है   बिजली बिल को लेकर कमलनाथ सरकार भाजपा  के निशाने पर आ चुकी है  प्रदेश की  कांग्रेस सरकार अपने वचन पत्र के अधिकतर वादों को पूरा करने का दावा कर रही है  लेकिन लोगों को इसका कितना लाभ मिल रहा है इसका अंदाजा 100 रूपए में 100 यूनिट बिजली के वादे से ही लगाया जा सकता है  जबलपुर जिले में अभी तक इस योजना का लाभ लेने वाले अधिकतर हितग्राहियों के एमपीईबी के रिकाॅर्ड में नाम भी नहीं जुड़ पाए और लोगों के घरों में अनाप-शनाप बिल पहुँच  रहे हैं   मजूदरी करने वाले परिवारों को 400-500 यूनिट के बिजली बिल पहुँच  रहे हैं   जबकि वे शासन की बिजली माफी वाली योजना के पात्र भी हैं  भाजपा कार्यकर्ताओं ने घमापुर और कांचघर क्षेत्र में रहने वाले गरीब परिवारों के बिल इकट्ठा किए जिनमें कई लोगों को 5 हजार रूपए तक के बिजली बिल दिए गए हैं   जिनके घरों का बिजली बिल 300 से 400 रूपए आता था उन्हें अब 3000 रूपए तक बिल थमा दिए गए   भाजपा  का आरोप  है कि प्रदेश सरकार जनता के साथ छलावा कर रही है  वर्तमान समय में गरीब परिवार के घर की बिजली खपत भी 200 से 300 यूनिट है ऐसे हालात में 100 यूनिट का बिल 100 रूपए तक सीमित करके उन्हें लाभ देने की घोषणा छलावा ही है  भाजपा नेताओं ने राज्यपाल के नाम पोस्टकार्ड लिखकर मांग की गई है कि जनता के साथ छल करने वाली योजना को बंद किया जाए    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 July 2019

GANG REAP

तीन आरोपी गिरफ्तार   एमपी  में महिलाओं के साथ बलात्कार कि घटनाए रुकने  का नाम नही ले रही हैं  जबलपुर में फेसबुक के जरिये दोस्ती कर गैंगरेप का मामला सामने आया है  पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने आरोपियों को पकड़ लिया है और इनके पास से हथियार भी बरामद हुए हैं    जबलपुर के शारदा चैक स्थित कालोनी के अपार्टमेंट में तीन युवकों ने युवती को बुलाया कर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया  आरोपियों ने युवती को फेसबुक के जरिए बुलाया था  पीड़ित युवती के अनुसार शुभम, कमलेश और जीतू ने उसके साथ गैंगरेप किया   यह तीनों नरसिंहपुर जिले के गोटेगांव तहसील के रहने वाले  हैं आरोपियों ने करीब 4 बजें युवती को काम के सिलसिले में बुलाया और उसके साथ रेप किया   वारदात के बाद पीड़िता ने मदन महल थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई जिसमें पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया पुलिस अधीक्षक के अनुसार तीनों आरोपियों ने पहले भी कई युवतियों के साथ एसी वारदात को अंजाम दिया है    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 July 2019

SHARABI ADVOCATE

चाकू के साथ वीडियो वायरल , वकील गिरफ्तार    शराब के नशे में धुत तहसील कार्यालय में काम कराने आये  एक वकील के महिला  नायब तहसीदार से अभद्रता करने का वीडियो जमकर वायरल हो रहा है  शराबी वकील की दहशत इतनी थी की लोग तहसील में ताला लगाकर भाग गए   पुलिस ने मामला दर्ज कर वकील को गिरफ्तार कर लिया है   जबलपुर में शराब के नशे में धुत एक वकील के द्वारा नायाब तहदीलदार से अभद्रता करने का वीडियो वायरल हो रहा है  बताया जा रहा है कि ये वीडियो अधारताल तहसील का है जहाँ बीते दिनों वकील शराब के नशे में धुत होकर अपना कुछ काम करवाने के लिए तहसील पहुंचा  था  वकील का नाम सामंत राज साहू बताया जा रहा है जो कि अपने साथ चाकू भी लिया हुआ था  जानकारी के मुताबिक वकील शराब पिया हुआ था और अपना काम करवाने के लिए उसने न सिर्फ महिला नायब तहसीलदार से अभद्रता की बल्कि चाकू भी चमकाया   बताया ये भी जा रहा है कि वकील  तलवार लेकर भी घूम रहा था  नयाब तहदीलदार की शिकायत पर विजय नगर थाना पुलिस ने वकील सामंत राज साहू के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है  एसपी अमित सिंह ने बताया कि आज भी वकील सामंत राज साहू नशे में तहसील पहुँच गया था   वकील की दहशत इतनी थी कि लोग तहसील छोड़कर चले गए   इतना ही नही तहसील में ताला भी लगा दिया गया   एसपी के निर्देश पर विजय नगर थाना पुलिस ने वकील को गिरफ्तार कर लिया है   सामंत राज का गंभीर अपराध मानते हुए पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है और उनके खिलाफ कानूनी कार्यवाही भी की जा रही है        

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 July 2019

KAMALNATH CHIKITSA

स्वास्थ्य केंद्र में ताला लगा कर डॉक्टर गायब जबलपुर बरगी विधानसभा क्षेत्र के  सरकारी अस्पतालों में अव्यवस्थाओं का आलम कम होने का नाम नहीं ले रहा है   एक गर्भवती महिला अस्पताल के बाहर एम्बुलेंस में एक घंटे दर्द से तड़पती रही लेकिन  महिला को इलाज करने के लिए  कोई चिकित्सक या नर्स नहीं आया  परिजनों की बार-बार शिकायत के बाद भी कुछ नहीं  हुआ  तो महिला को दूसरे अस्पताल ले जाया गया   बरगी  विधानसभा के भिड़की में मरीजों  के साथ खिल वाड किया जा रहा हैं   सामुदायिक उप स्वास्थकेन्द्र पर शेखर बर्मन अपनी पत्नी किरण बर्मन को प्रसव करवाने के लिये भिड़की अस्पताल लाये  लेकिन अस्पताल में ताला लगा था ओर नर्स से लेकर डॉक्टर तक सब नदारत थे  कोई नही मिलने के कारण प्रसूता 1 घंटे दर्द से तडफती  रही जब घंटो इंतजार करने के बाद कोई नही पहुँचा तो ग्रामीणों की सलाह पर प्रसूता को चरगवां स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गयाजहां महिला ने एक लड़की को जन्म  दिया  वही ग्रामीणो का कहना हे की भिड़की  स्वास्थ्य केंद्र में आये दिन कर्मचारी नदारत रहते हैं  इस घटना के बाद आनन  फानन में पहुंचे एक कर्मचारी ने बताया कि नर्स मीना पासी की ड्यूटी है और वह ताला लगाकर कहीं चली गई है  एक मरीज के लिये डॉक्टर भगवान का रूप होता है लेकिन इसी प्रकार की घटना एंडॉक्टर्स का सम्मान कम कर रही हैं अब देखना यह होगा कि लापरवाही बर्तने बाले कर्मचारियों पर स्वास्थ्य विभाग क्या कार्यवाही करता  है        

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 July 2019

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 March 2019

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 March 2019

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 March 2019

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 March 2019

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 March 2019

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 March 2019

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 March 2019

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 March 2019

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 March 2019

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 March 2019

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 March 2019

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 March 2019

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 March 2019

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 March 2019

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 March 2019

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 March 2019

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 March 2019

anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 March 2019

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने रविवार को जबलपुर में आयोजित मध्यक्षेत्रीय गुजराती बाजखेड़ाबाल समाज की स्थापना के रजत जयंती समोराह में कहा कि युवाओं को भारतीय संस्कृति, सभ्यता और परम्पराओं के प्रति जागरूक किया जाये। उन्होंने गुजराती समाज की विकास में भागीदारी और गुजरात राज्य की समृद्धि का जिक्र करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा शुरू किये गये जन-कल्याणकारी कार्यक्रमों को सफल बनाने में सम्पूर्ण समाज अपनी भागीदारी सुनिश्चित करे। राज्यपाल ने इस मौके पर गुजराती समाज की स्मारिका का विमोचन किया और विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य करने वाले सक्षम व्यक्तियों को सम्मानित किया। समारोह की अध्यक्षता गुजरात सरकार के संस्कृत बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष श्री गौतम पटेल ने की। महामण्डलेश्वर स्वामी अखिलेश्वरानंद और जबलपुर नगर निगम की महापौर डॉ. स्वाति गोड़बोले भी रजत जयंती समारोह में शामिल हुए।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 July 2018

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने जबलपुर में भेड़ाघाट के समीप विराट हॉस्पिस में कैंसर पीड़ित मरीजों की नि:स्वार्थ भाव से की जा रही सेवा को अनुकरणीय बताते हुए इस तरह के प्रकल्पों को गैर-सरकारी संगठनों के सहयोग से प्रदेश के अन्य स्थानों पर भी प्रारंभ करने की मंशा व्यक्त की है। श्री चौहान आज सुबह जबलपुर में वरिष्ठ पत्रकार श्री संजय सिन्हा के साथ ब्रह्मर्षि मिशन समिति द्वारा संचालित विराट हॉस्पिस पहुँचे थे। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर विराट हॉस्पिस में इलाज और देख-रेख के लिए भर्ती सभी 24 कैंसर रोगियों से भेंट कर उनकी कुशल क्षेम जानी। मुख्यमंत्री ने कैंसर से जीवन की जंग लड़ रहे इन मरीजों का गुलाब का फूल भेंटकर हौसला भी बढ़ाया। विराट हॉस्पिस में कैंसर से पीड़ित मरीजों की सेवा से अभिभूत मुख्यमंत्री ने संस्थान की संचालक और ब्रह्मर्षि मिशन समिति की प्रमुख साध्वी ज्ञानेश्वरी दीदी से भेंट की और आशीर्वाद लिया। श्री चौहान ने गंभीर और असाध्य माने जाने वाले कैंसर रोगियों की यहां की जा रही सेवा के कार्य को अद्भुत एवं अतुलनीय बताया। उन्होंने कहा कि इस तरह के प्रकल्पों को प्रदेश के अन्य स्थानों पर प्रारंभ करने के लिए ब्रह्मर्षि मिशन समिति के सहयोग से एवं साध्वी ज्ञानेश्वरी दीदी के मार्गदर्शन में कार्य-योजना तैयार की जायेगी। मुख्यमंत्री को बताया गया कि पिछले पाँच वर्षों में करीब 900 से अधिक कैंसर रोगियों की इस संस्थान में सेवा की जा चुकी है। संस्थान में आने वाले अधिकांश ऐसे कैंसर रोगी गरीब परिवारों के होते हैं। इन मरीजों को संस्थान में नि:शुल्क इलाज के साथ आध्यात्मिक वातावरण भी उपलब्ध करवाया जाता है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने विराट हॉस्पिस के सेवा कार्यों को देखते हुए इसे शासन द्वारा प्रारंभ किये गये आनंदम विभाग की गतिविधियों से जोड़ने की बात भी कही। मुख्यमंत्री ने ब्रह्मर्षि मिशन समिति के सेवा के एक और प्रकल्प ग्वारीघाट में गरीब परिवारों के बच्चों के लिए संचालित शाला के मेधावी बच्चों से भी भेंट की। उन्होंने इन बच्चों को प्रशस्ति-पत्र प्रदान करते हुए खूब मेहनत करने और आगे की पढ़ाई की चिंता सरकार पर छोड़ने की बात कही। उन्होंने कहा कि गरीब परिवारों के इन बच्चों की उच्च शिक्षा का खर्च शासन उठाएगा। मुख्यमंत्री ने विराट हॉस्पिस में गुणवत्तापूर्ण विद्युत की आपूर्ति के लिए ट्रांसफार्मर स्थापित करने तथा संस्थान तक पहुँच मार्ग के निर्माण के निर्देश भी अधिकारियों को दिये। विराट हॉस्पिस आने पर साध्वी ज्ञानेश्वरी दीदी द्वारा मुख्यमंत्री का शाल और श्रीफल भेंटकर सम्मान भी किया गया। इस अवसर पर विधायक श्रीमती प्रतिभा सिंह, समाजसेवी श्री नरेश ग्रोवर, श्री सांवलदास, श्री कमल ग्रोवर, वरिष्ठ पत्रकार श्री रवीन्द्र वाजपेई और नगर पंचायत के पूर्व अध्यक्ष अनिल तिवारी भी मौजूद थे । पूर्व विधानसभा अध्यक्ष स्व. रोहाणी की प्रतिमा पर माल्यार्पण : महिलाओं को सिलाई मशीनें वितरित मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने जबलपुर प्रवास के दूसरे दिन आज पूर्व विधानसभा अध्यक्ष स्व. श्री ईश्वरदास रोहाणी के जन्म दिवस पर सर्किट हाउस के समीप स्थित उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रृद्धा सुमन अर्पित किये। मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में केंट विधानसभा क्षेत्र के मेधावी बच्चों का सम्मान किया तथा गरीब परिवारों की महिलाओं को सिलाई मशीनें एवं दिव्यांगों को ट्राइसिकल दी। कार्यक्रम में चिकित्सा शिक्षा राज्य मंत्री श्री शरद जैन, समाजसेवी डॉ. जीतेन्द्र जामदार, विधायक श्री अशोक रोहाणी और श्री विजय रोहाणी मौजूद थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 July 2018

वीरांगना रानी दुर्गावती

वीरांगना रानी दुर्गावती के 455वें बलिदान दिवस समारोह में मुख्यमंत्री  चौहान  मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने  जबलपुर में वीरांगना रानी दुर्गावती के समाधि स्थल पर 455वें बलिदान दिवस पर आयोजित विशाल आदिवासी सम्मेलन में घोषणा की कि युवा पीढ़ी को बलिदान और स्वाभिमान की रक्षा के लिये प्रेरित करने के उद्देश्य से समाधि स्थल पर हर वर्ष रानी दुर्गावती के बलिदान-दिवस पर तीन दिवसीय कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे। वन भूमि पर वर्ष 2006 तक काबिज वनवासी आदिवासियों को वनाधिकार पट्टे देकर काबिज वनभूमि का मालिक बनाया जायेगा। सौभाग्य योजना के अंतर्गत दिसम्बर 2018 तक प्रत्येक आदिवासी परिवार के घर-घर तक बिजली पहुँचाई जायेगी। इन परिवारों को 200 रूपये प्रतिमाह फ्लेट रेट पर ही बिजली बिल का भुगतान करना होगा। संबल योजना में गरीब आदिवासी परिवारों को शामिल कर योजना के सभी लाभ दिये जायेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि रानी दुर्गावती के समाधि स्थल के समीप 10 एकड़ शासकीय भूमि पर वीरांगना के नाम से भव्य स्मारक बनवाया जायेगा। उन्होंने मण्डला जिले के रामनगर में आदिवासी संग्रहालय बनवाने की घोषणा करते हुए कहा कि गरीब आदिवासी परिवारों को आवासीय भूमि का पट्टा दिया जायेगा और अगले चार वर्षों में उन्हें पट्टे की जमीन पर पक्के मकान बनवाकर दिये जायेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार आदिवासी समुदाय के विकास और समृद्धि के साथ-साथ उनके गौरवपूर्ण इतिहास, परम्परा, बलिदान और संस्कृति को अक्षुण्ण बनाये रखेगी। स्वाधीनता की लड़ाई में आदिवासी नायकों के अमूल्य योगदान का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि वीरांगना रानी दुर्गावती ने जहाँ एक ओर राज्य की स्वतंत्रता और स्वाभिमान की रक्षा के लिये अपना बलिदान दिया, वहीं दूसरी ओर अपने 15 वर्ष के शासनकाल में प्रजा के लिये जनहितैषी कल्याणकारी कार्य करवाये, जिसके प्रमाण आज जबलपुर सहित अन्य स्थानों पर देखे जा सकते हैं। रानी दुर्गावती ने जल संरक्षण के लिये तालाबों का निर्माण करवाया और आम आदमी की सुविधा के लिये धर्मशालाएँ भी बनवाईं। रानी दुर्गावती के नाम पर होगा डूमना विमानतल का नामकरण मुख्यमंत्री श्री चौहान ने घोषणा की कि जबलपुर के डुमना विमानतल का नामकरण रानी दुर्गावती के नाम पर करने के लिये विधानसभा में राज्य शासन की ओर से प्रस्ताव पारित करवाकर केन्द्र शासन को भेजा जायेगा। श्री चौहान ने कहा कि महिला स्व-सहायता समूह से आदिवासी महिला को जोड़कर उनके जीवन स्तर को बेहतर बनाने के प्रयास किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार का पूरा प्रयास है कि आदिवासी के जीवन में समृद्धि और खुशहाली आये इसलिए राज्य सरकार के बजट का बड़ा हिस्सा आदिवासियों और गरीबों के कल्याण और विकास के लिये व्यय करने का निर्णय लिया गया है। बेटा-बेटी को खूब पढ़ायें आदिवासी परिवार मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आदिवासी समुदाय से अपील की कि बच्चों को आत्म-निर्भर और सशक्त बनाने के लिये खूब पढ़ाई-लिखाई करवायें। उनके बेटा-बेटी की पढ़ाई का खर्चा राज्य सरकार वहन करेगी। श्री सिंह ने बताया कि केन्द्र और राज्य सरकार देश और प्रदेश में महिलाओं के सशक्तिकरण के लिये तेजी से प्रयास कर रही है। उन्होंने आदिवासी परिवारों से कहा कि अपने बेटा-बेटियों को खूब पढ़ायें-लिखायें और समाज में आगे बढ़ने का मौका दें। समारोह में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने श्री शंकरदयाल भारद्वाज द्वारा लिखित पुस्तक 'रानी दुर्गावती-एक बलिदान गाथा' का विमोचन किया। श्री चौहान ने लेखक श्री भारद्वाज को शॉल-श्रीफल देकर सम्मानित भी किया। सांसद श्री राकेश सिंह एवं श्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने भी अपने विचार व्यक्त किये। मुख्यमंत्री का तलवार-ढाल भेंट कर किया सम्मान मध्यप्रदेश जनजाति संयुक्त मोर्चा के प्रतिनिधियों ने मुख्यमंत्री श्री चौहान को बड़ी फूल माला पहनाई और तलवार तथा ढाल भेंट कर सम्मानित किया। इस अवसर पर सांसद श्रीमती संपतिया उईके, विधायक श्री सुशील तिवारी, श्रीमती प्रतिभा सिंह एवं सुश्री नंदिनी मरावी, मनोनीत विधायक श्री एल.बी. लोबो, महापौर डॉ. स्वाति सदानंद गोडबोले, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती मनोरमा पटेल, पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक वित्त तथा विकास निगम के उपाध्यक्ष श्री एस.के. मुद्दीन, जबलपुर कृषि उपज मंडी अध्यक्ष श्री राजाबाबू सोनकर, बड़ी संख्या में विशाल आदिवासी समुदाय मौजूद था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 June 2018

मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान

मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश के किसानों की फसल निर्यात करने के लिये एपिडा (Agricultural and Processed Food Products Export Devlopment Authority) की तर्ज पर प्रदेश में बोर्ड का गठन किया जायेगा। श्री चौहान जबलपुर में कृषक समृद्धि योजना के अंतर्गत आयोजित राज्य-स्तरीय किसान महा-सम्मेलन में बड़ी संख्या में मौजूद किसानों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार ग्रीष्मकालीन उड़द भी समर्थन मूल्य पर खरीदेगी। उन्होंने उड़द उत्पादक किसानों से आग्रह किया कि कृषक समृद्धि योजना में अपना पंजीयन करायें, ताकि उन्हें भी योजना का समय लाभ मिल सके। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि खेती का विकास और किसान का कल्याण राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। खेतिहर परिवारों के बेटा-बेटी कृषि आधारित उद्योग-धंधे स्थापित करें। राज्य सरकार उन्हें 10 लाख से 2 करोड़ रूपये तक ऋण उपलब्ध करवाएगी। इस ऋण की गारंटी भी राज्य सरकार लेगी। श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश में लॉजिस्टिक हब और फुड चेन बनाई जायेगी। कच्चे माल के प्र-संस्करण की व्यवस्था की जायेगी। किसानों को कृषक समृद्धि योजना सहित अन्य महत्वपूर्ण योजनाओं की जानकारी देते हुए मुख्यमंत्री ने बताया कि किसानों के बच्चों की शिक्षा संस्थानों की फीस भी राज्य सरकार भरेगी। आवश्यकतानुसार किसान परिवार के सदस्यों का प्रायवेट अस्पताल में ईलाज कराने की पूरी व्यवस्था की जायेगी। किसानों को बिजली बिलों की परेशानी से राहत देने के लिये जुलाई माह में बड़े पैमाने पर शिविर लगाये जायेंगे। उन्होंने बताया कि किसान परिवार के बच्चों को भी शिक्षा विभाग की लेपटॉप योजना का लाभ दिया जायेगा। श्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार चाहती है कि प्रदेश के बच्चे खूब पढ़ें, आगे बढ़ें और नया मध्यप्रदेश गढ़ें। राज्य-स्तरीय किसान सम्मेलन में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि एक जमाना था, जब प्रदेश के किसान बिजली, सिंचाई, बैंक के कर्ज और सड़क की बदहाली के कारण चैन से खेती नहीं कर पाते थे। उन्होंने कहा कि आज स्थिति बिल्कुल अलग है। आज प्रदेश में विद्युत उत्पादन 18 हजार 354 मेगावॉट तक पहुँच गया है। किसानों को भरपूर बिजली मुहैया कराई जा रही है। सिंचाई का रकबा 40 हजार हेक्टेयर हो गया है, किसानों के खेतों में पाईप लाईन से आवश्यकतानुसार भरपूर पानी पहुँचाया जा रहा है। किसान को अब बैंक ऋण पर भारी ब्याज नहीं देना पड़ता है। जीरो प्रतिशत ब्याज पर बैंक से ऋण लेकर किसान खेती कर रहे हैं। प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के माध्यम से ग्रामीण अंचल शहरों से जुड़ गये हैं। फसल बीमा योजना और सूखा राहत राशि की बड़े पैमाने पर व्यवस्था से किसान निश्चिंत होकर खेती को लाभ का धंधा बनाने में जुट गये हैं। रु. 394 करोड़ लागत के निर्माण कार्यों का भूमि-पूजन मुख्यमंत्री श्री चौहान ने राज्य-स्तरीय किसान महा-सम्मेलन में लगभग 394 करोड़ रूपये लागत के निर्माण कार्यों का भूमि-पूजन किया। इसमें 257 करोड़ की नर्मदा पेयजल योजना, 51 करोड़ का बेलखेड़ा विद्युत उपकेन्द्र, 34 करोड़ 8 लाख का गौरा बाजार विद्युत उपकेन्द्र, 20 करोड़ 38 लाख का मेडिकल यूनिवर्सिटी का प्रशासनिक भवन तथा 21 करोड़ 71 लाख की मुख्यमंत्री ग्रामीण पेयजल योजना शामिल है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इस अवसर पर मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना के अंतर्गत प्रदेश के 10 लाख 80 हजार 228 पंजीकृत किसानों के बैंक खातों में रबी वर्ष 2018-19 में उपार्जित गेहूँ की 265 रूपये प्रति क्विंटल के हिसाब से कुल प्रोत्साहन राशि 2 हजार 245 करोड़ ऑनलाईन ट्रांसफर की। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार की इस पहल से प्रदेश के किसान आर्थिक रूप से सशक्त होंगे। खेती के क्षेत्र में नया इतिहास रचेंगे। उन्होंने कहा कि हमारी कोशिश है कि प्रदेश में खेती से होने वाली आमदनी किसानों के लिये समृद्धि का सशक्त माध्यम बने। श्री चौहान ने इस अवसर पर मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना में पंजीकृत किसानों को हित-लाभ वितरित किये। इसी के साथ किसानों की बेटियों को हायर सेकेण्डरी की परीक्षा में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिये सम्मानित भी किया। श्री चौहान ने इस मौके पर किसानों को सरकार के साथ नया मध्यप्रदेश गढ़ने, गाँव को स्वच्छ बनाने और बेटा-बेटी को बराबरी से पढ़ाने का संकल्प दिलाया। राज्य-स्तरीय किसान सम्मेलन में महामण्डलेश्वर स्वामी अखिलेश्वरानंद, सांसद श्री राकेश सिंह, महापौर डॉ. स्वाति गोड़बोले, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती मनोरमा पटेल, विधायक श्री अंचल सोनकर, श्री सुशील तिवारी, सुश्री प्रतिभा सिंह, सुश्री नंदिनी मरावी, श्री अशोक रोहाणी, श्री मोती कश्यप, श्री लारेन बी लोबो, जबलपुर प्राधिकरण के अध्यक्ष डॉ. विनोद मिश्रा, महाकौशल विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री प्रभात साहू, किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष श्री रणवीर सिंह रावत, अन्य किसान नेता, अन्य जन-प्रतिनिधि तथा बड़ी संख्या में ग्रामीण और किसान मौजूद थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 June 2018

एडीजे श्रीवास निलंबित

    मध्यप्रदेश हाईकोर्ट के पूर्व विशेष कर्त्तव्यस्थ अधिकारी, अतिरिक्त जिला सत्र न्यायाधीश आरके श्रीवास को अनुशासनहीनता के आरोप में निलंबित कर दिया गया है। मंगलवार 8 अगस्त को प्रिंसिपल रजिस्ट्रार (विजिलेंस) सत्येन्द्र कुमार सिंह के हस्ताक्षर से इस आशय का आदेश जारी हुआ। उक्त आदेश में कहा गया है कि सीरियस मिस कंडक्ट को लेकर एडीजे श्रीवास के खिलाफ विभागीय जांच संस्थित कर दी गई है। निलंबन अवधि में एडीजे श्रीवास का मुख्यालय नीमच रहेगा। उल्लेखनीय है कि 15 महीने में चार तबादलों के विरोध में एडीजे श्रीवास ने हाईकोर्ट के बाहन तीन दिनों तक सत्याग्रह किया था। हालांकि, शनिवार को उन्होंने बच्चों की पढ़ाई का नुकसान न हो, इसलिए ट्रांसफर आदेश मानते हुए गृहस्थी का सामान नीमच शिफ्ट कर लिया। उन्होंने मंगलवार को नीमच कोर्ट में ज्वाइन ही किया और प्रिंसिपल रजिस्ट्रार ने उनका निलंबन आदेश जारी कर दिया। निलंबन आदेश काला धब्बा, दिल्ली तक उठाऊंगा आवाज : एडीजे श्रीवास  एडीजे श्रीवास ने अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए अपने निलंबन आदेश को न्यायपालिका के इतिहास में काला धब्बा निरूपित किया। साथ ही हाईकोर्ट के कठोर रवैये की तुलना अंग्रेजों के जमाने में न अपनी दलील और न वकील वाले रोलेट एक्ट से करते हुए अपनी आवाज दिल्ली तक उठाने की चेतावनी दी है। इससे पूर्व जबलपुर आकर हाईकोर्ट स्तर पर विरोध दर्ज कराया जाएगा। यदि आवश्यक पड़ी तो साइकल रैली भी निकालने की बात कही गई है। एडीजे का कहना है कि मैं अपने साथ हुए अन्याय का प्रतिकार जैसे भी बनेगा करूंगा। मैं अपनी ओर से उठाई गई फोर्थ क्लास भर्ती घोटाले सहित 9 बिन्दुओं पर जांच की मांग पर भी पूर्ववत कायम रहूंगा। जबलपुर से हाल ही में नीमच ट्रांसफर किए गए एडीजे श्रीवास ने महज 15 माह में चार तबादला आदेशों को लेकर आक्रोश प्रदर्शित करते हुए हाईकोर्ट के गेट नंबर-3 के सामने सड़क किनारे दरी बिछाकर तीन दिनी सत्याग्रह किया था। इससे पूर्व अपनी पीड़ा सोशल मीडिया के जरिए सार्वजनिक की गई, जिसे मीडिया में स्थान मिला। एडीजे श्रीवास ने बताया कि उन्होंने मंगलवार 8 अगस्त को दोपहर 1 बजे नीमच कोर्ट पहुंचकर विधिवत ज्वाइनिंग दे दी। शाम तक बाकायदे न्यायिक कार्य किया। लेकिन शाम 6 बजे निलंबन आदेश थमा दिया गया। लिहाजा, बुधवार से वे कोर्ट में सुनवाई का न्यायिक कार्य नहीं कर सकेंगे। चूंकि उन्हें फ्री कर दिया गया है, अत: वे एक-दो दिन में अपनी रणनीति बनाकर जबलपुर आएंगे और यहीं से आंदोलन को नए सिरे से गति देंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 August 2017

धरने पर जज आरके श्रीवास

    जबलपुर हाईकोर्ट के विशेष कर्त्तव्यस्थ अधिकारी और अतिरिक्त जिला सत्र न्यायाधीश आरके श्रीवास मंगलवार सुबह मप्र हाईकोर्ट की इमारत के गेट नंबर तीन के सामने धरने पर बैठ गए। पहले वे परिसर के अंदर सत्याग्रह पर बैठना चाहते थे, लेकिन उन्हें अंदर नहीं जाने दिया गया। मप्र हाईकोर्ट के 61 साल के इतिहास में यह पहला मामला जब किसी एडीजे ने सत्याग्रह किया है। जज श्रीवास ने 15 महीने में 4 बार तबादल किए जाने के विरोध में सत्याग्रह कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मुख्य न्यायाधीश और रजिस्ट्रार जनरल को अपने साथ हुए अन्याय से अवगत कराने के बावजूद हाईकोर्ट प्रशासन की ओर से अब तक कोई भी सकारात्मक रिस्पांस सामने नहीं आया। उनका कहना है कि हर 3 महीने में ट्रांसफर से परिवार परेशान हो गया है। इस बार जैसे-तैसे जबलपुर के क्राइस्ट चर्च स्कूल में बच्चे का एडमिशन करवाया था। एक को पढ़ाई के लिए नीमच में छोड़ना पड़ा, क्योंकि वहां से भी तबादला कर दिया गया था। एडीजे के पक्ष में बार के वकील भी साथ आने लगे हैं। कड़ी धूप में बैठकर धरना दे रहे जज के लिए वकीलों ने छाते मंगवाए। जज का कहना है कि न्याय नहीं मिला तो वे धरने के बाद अनशन करेंगे। महज 15 माह में चौथा तबादला हाईकोर्ट की ट्रांसफर पॉलिसी के सर्वथा विपरीत है। इससे यह साफ होता है कि एकरूपता को पूरी तरह दरकिनार करके मनमाने तरीके से भाई-भतीजावाद के आधार पर तबादले किए जा रहे हैं। इसलिए बजाए झुकने के संघर्ष का रास्ता चुना गया। मुझे अब तक नीमच में ज्वाइन कर लेना था, लेकिन मैंने ऐसा नहीं किया। इसके स्थान पर नौकरी को दांव पर लगाकर सत्याग्रह की राह पकड़ ली है। यदि मुझे गिरफ्तार करने के निर्देश दिए गए तो जेल जाने तक तैयार हूं। लेकिन अन्याय किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं करूंगा।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 August 2017

 पेड न्यूज  नरोत्तम

जबलपुर में मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय ने प्रदेश के जनसंपर्क और संसदीय कार्य मंत्री नरोत्तम मिश्रा की निर्वाचन आयोग के फैसले के खिलाफ दायर याचिका पर सुनवाई दो सप्ताह आगे बढ़ा दी है। इसके चलते मिश्रा अब राष्ट्रपति चुनाव में हिस्सा नहीं ले सकेंगे।  मिश्रा के खिलाफ आयोग में शिकायत करने वाले राजेंद्र भारती की ओर से मंगलवार की सुनवाई के दौरान उनके अधिवक्ता विवेक कृष्ण तन्खा ने मुख्य न्यायाधीश हेमंत गुप्ता की अध्यक्षता वाली युगलपीठ को बताया कि याचिका को ग्वालियर खंडपीठ से जबलपुर स्थानांतरित करने के संबंध में उच्चतम न्यायालय की शरण ली गई है। उन्होंने युगलपीठ को बताया कि उच्चतम न्यायालय में दायर उनकी विशेष अनुमति याचिका (एसएलपी) पर सुनवाई अभी लंबित है, जिसके बाद युगलपीठ ने मिश्रा की याचिका पर सुनवाई दो सप्ताह बाद निर्धारित कर दी। यह मामला चुनाव आयोग द्वारा 23 जून को दिए उस आदेश से संबंधित है, जिसमें मंत्री नरोत्तम मिश्रा को पेड न्यूज से संबंधित मामले में दोषी पाते हुए 3 साल के लिए अयोग्य ठहराया गया था। भारत निर्वाचन आयोग ने मिश्रा का विधानसभा निर्वाचन तीन वर्षों के लिए अयोग्य ठहरा दिया था। इसके खिलाफ मिश्रा ने ग्वालियर खंडपीठ में याचिका दायर की थी। मिश्रा ने इसे मुख्यपीठ में स्थानांतरित करने का आग्रह किया था। प्रिंसिपल रजिस्ट्रार के निर्देश पर 7 जुलाई को ग्वालियर पीठ के न्यायाधीश विवेक अग्रवाल ने मंत्री मिश्रा की याचिका को सुनवाई के लिए मुख्यपीठ में स्थानांतरित कर दिया था। इसके खिलाफ शिकायतकर्ता राजेन्द्र भारती ने हाईकोर्ट की मुख्यपीठ को एक पत्र लिखते हुए इस पर आपत्ति जताई थी। उन्होंने कहा था कि मुख्यपीठ में दायर याचिका प्रायोजित है। दूसरी ओर उच्च न्यायालय की मुख्य पीठ में एक जनहित याचिका दायर कर एक पत्रकार ने मिश्रा की विधानसभा सीट रिक्त घोषित किए जाने की मांग की थी। मंगलवार को इन दोनों याचिकाओं की सुनवाई मुख्य न्यायाधीश हेमंत गुप्ता की अध्यक्षता वाली युगलपीठ द्वारा की गई। मंत्री नरोत्तम मिश्रा का कहना है था - जिस अखबार की खबर को आधार बनाकर शिकायत की गई है उसने न्यूज पेड होने से इनकार किया है। एक भी ओरिजनल डॉक्यूमेंट पेश नहीं किया गया। ऐसे तो कोई भी किसी के खिलाफ झूठी फोटोकॉपी पेश कर केस कर देगा। 17 जुलाई को राष्ट्रपति चुनाव की वोटिंग होनी है। मैं वोटर हूं। चुनाव आयोग के इस फैसले से वोट नहीं दे पाऊंगा। इसलिए राहत (स्टे) दें। राजेंद्र भारती का कहना था -चुनाव आयोग ने इन्हें (नरोत्तम की तरफ इशारा करते हुए) अयोग्य घोषित किया है। नरोत्तम ने स्टे मांगा है और हमने भी केविएट दायर की है। दिल्ली से मेरे वकील नहीं आ सके हैं। बहस पूरी हुए बगैर स्टे नहीं दें। लॉ डिपार्टमेंट के डायरेक्टर विजय पांडे (चुनाव आयोग):आयोग ने नरोत्तम मिश्रा और राजेंद्र भारती को सुनवाई का पूरा मौका दिया था। दोनों पक्षों की बात सुनने और तथ्यों के आधार पर ही मिश्रा को अयोग्य घोषित किया गया है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 July 2017

11 ki maut

जबलपुर शहर के करीब जामुनिया में मजदूरों से भरा वन विभाग का पिकअप वाहन पलटने से 11 लोगों की मौत हो गई और 15 घायल हो गए। सभी घायलों को जबलपुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती करवाया गया। यहां इलाज के बाद 11 घायलों को डिस्चार्ज कर दिया गया और 4 गंभीर घायलों का इलाज जारी है। जानकारी के मुताबिक वन विभाग ने अपनी सरकारी गाड़ी को एक तेंदूपत्ता ठेकेदार को मजदूरों को लाने के लिए दी थी। ठेकेदार का ड्राइवर नशे की हालत में गाड़ी चला रहा था। इस दौरान नरसिंहपुर-गोटेगांव रोड पर जामुनिया के पास एक मोड पर ड्राइवर गाड़ी से अपना नियंत्रण खो बैठा और वह पुलिया की रेलिंग तोड़ते हुए सीधे नीचे जा गिरी। घटनास्थल पर ही 10 मजदूरों की मौत हो गई और एक घायल ने अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। ये सभी मजदूर गोंदिया से देर रात ट्रेन से जबलपुर आए थे। वन विभाग के वाहन में बैठकर तेंदूपत्ता तोड़ने के लिए चरगंवा जा रहे थे। इसी दौरान रात करीब 2 बजे जामुनिया के पास यह हादसा हो गया। सूचना मिलने के बाद पुलिस और एंबुलेंस मौके पर पहुंची और घायलों को तुरंत मेडिकल अस्पताल ले जाया गया। प्रशासन द्वारा सभी को आर्थिक सहायता देने की बात कही गई है। सभी मजदूर महाराष्ट्र के गोंदिया जिले के डुग्गीपार इलाके के अलग-अलग गांवों के रहने वाले हैं। मृतकों के नाम हैं  बुधराम पिता लक्खू (40), चुन्नी लाल पिता दायाराम चौधरी (35), लच्छू पिता कुंवरलाल चौधरी (30), रामनाथ पिता गनपत सरोते (40),  तुलाराम पिता हरिशचंद्र मोयरे (35), प्रदीप पिता माऊराव हल्वी (19),छगन पिता नीलकंठ कामड़े (30),शंकर पिता रामकृष्‍ण मसकोडे़ (35),गनेंद्र पिता तेजराम (35) ,टुमेश्वर पिता दयाराम मोयर (32) ,संतू पिता दामा शिंदे (53) |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 May 2017

jabalpur

जबलपुर शहर के वरिष्ठ कांग्रेस नेता सईद मालगुजार ने बुधवार अलसुबह अपनी पत्नी की गोली मारकर हत्या कर दी। इसके बाद उन्होंने खुद को भी गोली मार ली। घटना में दोनों की मौत हो गई। जानकारी के मुताबिक गोलहपुर के नलियाबंद मोहल्ले में रहने वाले सईद ने पहले बंदूक से पत्नी होसलाबानो के सिर में गोली मारी, जिससे मौके पर ही उनकी मौत हो गई। गोली की आवाज सुनते ही उनका बेटा वहां पहुंचा और बंदूक छीन ली, इसके बाद वे दूसरे कमरे में गए और वहां रखी रिवाल्वर से खुद के सिर में गोली मार ली। घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और जांच शुरू की। सईद मालगुजार नगर कांग्रेस में उपाध्यक्ष और नगर निगम में एल्डरमैन रह चुके हैं। पूर्व महापौर विश्वनाथ दुबे के कार्यकाल में सईद को एल्डरमैन बनाया गया था। फिलहाल वे प्रापर्टी खरीदने और बेचने का करते थे। अभी साफ नहीं हो पाया है कि कांग्रेस नेता ने यह कदम क्यों उठाया।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 April 2017

अमित शाह

नर्मदा सेवा यात्रा के 120वें दिन जबलपुर के ग्वारीघाट में जन-संवाद कार्यक्रम का भव्य आयोजन हुआ। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि माँ नर्मदा के संरक्षण के लिए राज्य सरकार हरसंभव प्रयास करेगी। दो जुलाई को लाखों लोग करोड़ों वृक्षों का रोपण नर्मदा के किनारे करेंगे। उन्होंने कहा कि हमने बेतवा, क्षिप्रा और ताप्ती नदी को धार तोड़ते देखा है। यदि आप चाहते हैं कि नर्मदा की धार न टूटे तो किसी पर भरोसा मत करें आगे बढ़ें और इस यात्रा को जन आंदोलन बनाते हुए सम्पूर्ण विश्व में जनभागीदारी से किसी नदी के संरक्षण के लिए चलाया जाने वाला सबसे बड़ा अभियान बनाएं। साथ ही नर्मदा को अविरल बनाने के लिए 2 जुलाई को पौधों का रोपण अनिवार्यत: करें। जनसंवाद में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान को आधुनिक भागीरथ की संज्ञा दी। उन्होंने कहा कि माँ नर्मदा जीवनदायिनी तो है ही लेकिन इसके साथ ही मोक्षदायिनी भी है। नमामि देवि नर्मदे – नर्मदा सेवा यात्रा में राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री शाह ने उपस्थित जन-मानस से नर्मदा के संरक्षण में सक्रिय सहभागिता निभाने का आव्हान किया। पद्म पुराण, मत्स्य पुराण में माँ नर्मदा के गौरव का बखान भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने बताया कि पदम पुराण, मत्स्य पुराण में माँ नर्मदा की गौरवगाथा का बखान है। जहां अन्य नदियों में स्नान करने से पुण्य की प्राप्ति होती है वहीं माँ नर्मदा के तो दर्शन मात्र से पाप का नाश हो जाता है। माँ नर्मदा का महत्व बताते हुए श्री शाह ने कहा कि सनातन धर्म के इतिहास में भी इसका गौरवशाली उल्लेख है, क्योंकि कुछ कारण तो रहा होगा सनातन धर्म पर संकट आने पर आदिगुरू शंकराचार्य ने भी नर्मदा के किनारे ही धर्मावलम्बियों को एकत्रित कर आगे ले जाने का प्रयास किया। माँ नर्मदा के संरक्षण के लिए प्रारंभ की गई नर्मदा सेवा यात्रा की मुक्त कण्ठ से सराहना करते हुए श्री अमित शाह ने इसके सफल होने की कामना की। उन्होंने कहा कि इसके सफल होने से जहां मध्यप्रदेश, गुजरात, राजस्थान, महाराष्ट्र की जनता को लाभ होगा वहीं सम्पूर्ण देश की संस्कृति और धर्म को पुनर्जीवित करने की दिशा में यह सार्थक प्रयास साबित होगी। श्री शाह ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा अपने उद्बोधन में नर्मदा शुद्धिकरण के लिए बताए गए प्रयासों का सार्थक रूप से जमीनी स्तर पर क्रियान्वयन कराने की बात कही। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में मुख्यमंत्री श्री चौहान लंदन की टेम्स और चीन की ली नदी की तरह नर्मदा को भी शुद्ध नदियों की सूची में शामिल करवाने की दिशा में कार्य करें। इतनी ही तेजी से होगा गंगा शुद्धिकरण का कार्य श्री शाह ने गंगा नदी के संरक्षण व संवर्धन के लिए चलाए जा रहे नमामि गंगे अभियान की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि इस अभियान की तरह ही प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के मार्गदर्शन में उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री भी माँ गंगा के शुद्धिकरण के लिए तेजी से कार्य करेंगे। 15 मई को प्रधानमंत्री की उपस्थिति में नर्मदा सेवा यात्रा का होगा समापन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि 15 मई को माँ नर्मदा के उद्गम स्थल अमरकंटक में इस यात्रा का समापन होगा। समापन के दौरान देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी भी उपस्थित रहेंगे। समापन समारोह के बाद यात्रा समाप्त नहीं होगी। इसका नया आगाज होगा जिसके तहत ही 2 जुलाई को नर्मदा के किनारे वृहद् स्तर पर वृक्षारोपण किया जाएगा। अवैध उत्खनन पर जुर्माना नहीं वाहन किया जाएगा राजसात मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने नर्मदा सेवा यात्रा के दौरान शासन के एक सख्त निर्णय की जानकारी भी मंच से दी। उन्होंने कहा कि अवैध उत्खनन को सरकार सख्ती से रोकेगी। अवैध उत्खनन बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। अवैध खनन करते पाए जाने पर जुर्माना करके वाहन नहीं छोड़े जाएंगे बल्कि वाहन सीधे राजसात किए जाएंगे। मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रदेश में नशामुक्ति सम्मेलनों का आयोजन किया जाएगा। जिन जिलों में सामूहिक रूप से नशामुक्ति का संकल्प लिया जाएगा वहां शराबबंदी कर दी जाएगी। इतना ही नहीं चरणबद्ध तरीके से पूरे प्रदेश में शराबबंदी की जाएगी। पौधों की होगी मॉनीटरिंग मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि पौध-रोपण में रोपे गए पौधे सुरक्षित रहें इसकी भी प्रभावी मॉनीटरिंग की जाएगी। उन्होंने कहा कि सीवेज का पानी नदी में नहीं मिलने दिया जाएगा। उसे ट्रीटमेंट प्लांट में ले जाकर ट्रीट करने के बाद खेतों में पहुंचाया जाएगा। नर्मदा प्रेरणा देने वाली नदी जनसंवाद में केन्द्रीय कोयला एवं ऊर्जा राज्य मंत्री श्री पीयूष गोयल ने कहा कि नर्मदा पूज्यनीय और प्रेरणा देने वाली नदी है। हमारी न जाने कितनी पीढ़ियों को माँ नर्मदा ने जीवित रखा है। मुख्यमंत्री श्री चौहान की नर्मदा सेवा यात्रा के माध्यम से नर्मदा संरक्षण के प्रयास की केन्द्रीय मंत्री श्री गोयल ने प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि यह प्रयास भारतीय संस्कृति को तो बचाएगा ही साथ ही प्रकृति की रक्षा भी करेगा। जल और बिजली के क्षेत्र में मध्यप्रदेश सरकार ने उठाए सार्थक कदम जो बनेंगे मिसाल केन्द्रीय कोयला एवं ऊर्जा मंत्री श्री गोयल ने जल और बिजली के क्षेत्र में मध्यप्रदेश सरकार द्वारा उठाए गए कदमों की प्रशंसा की। प्रधानमंत्री की मंशानुरूप प्रदेश के मुख्यमंत्री ने सौर ऊर्जा को प्रोत्साहन दिया है। जहाँ नर्मदा सेवा यात्रा के माध्यम से माँ नर्मदा को प्रदूषण मुक्त करने का अभियान राज्य सरकार चला रही है वहीं सौर ऊर्जा के ऐसे प्रोत्साहन से प्रदूषण मुक्त बिजली भी प्रदेश को मिलेगी। देश के सुप्रसिद्ध पार्श्व गायक सुरेश वाडकर ने भी नर्मदा बचाव के लिए राज्य सरकार द्वारा प्रारंभ किए गए उपक्रम नर्मदा सेवा यात्रा की सराहना की। उन्होंने कहा कि जल को बचाना हम सबका फर्ज है। पुस्तक व विशेषांक का किया विमोचन, श्री बेगड़ का किया सम्मान जनसंवाद कार्यक्रम में उपस्थित अतिथियों द्वारा प्रसिद्ध स्तंभकार व लेखक श्री विठ्ल सी. नादकर्णी तथा छाया चित्रकार श्री हरि माहिधर की पुस्तक नमामि देवि नर्मदे – हितैषी माँ नर्मदा यात्रा का अनावरण किया गया। साथ ही नर्मदा यात्रा पर प्रकाशित दैनिक जयलोक के विशेषांक का भी विमोचन हुआ। कार्यक्रम में श्री अमृतलाल बेगड़ का भी सम्मान उपस्थित अतिथियों द्वारा किया गया। श्री शाह ने थामा ध्वज तो श्री चौहान ने उठाया पवित्र कलश ग्वारीघाट में आयुर्वेद महाविद्यालय परिसर में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने पहुँचे भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने जहां नर्मदा सेवा यात्रा का ध्वज थामा वहीं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी पवित्र कलश उठाया। दोनों ही अतिथियों ने ध्वज और कलश को लाकर माँ नर्मदा की प्रतिमा के सम्मुख स्थापित कर पूजा-अर्चना की। इस दौरान श्रीमती साधना सिंह भी मौजूद रहीं। स्वागत भाषण सांसद श्री राकेश सिंह ने दिया। कार्यक्रम का संचालन यात्रा के प्रदेश संयोजक डॉ जितेन्द्र जामदार ने किया। इस दौरान प्रदेश के वन मंत्री श्री गौरीशंकर शेजवार, महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनिस, चिकित्सा शिक्षा मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री शरद जैन, नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री लाल सिंह आर्य, सांसद एवं प्रदेश भाजपा अध्यक्ष श्री नंद कुमार सिंह चौहान, विधायक अंचल सोनकर, प्रतिभा सिंह, नंदिनी मरावी, सुशील तिवारी इंदु व अशोक रोहाणी, समाज कल्याण बोर्ड की अध्यक्ष श्रीमती पद्मा शुक्ला, गौपालन एवं पशु संवर्धन बोर्ड के अध्यक्ष अखिलेश्वरानंद जी महाराज, जगतगुरू श्यामदेवाचार्य जी, यूएनआरसी के प्रतिनिधि मिस्टर यूरी सहित अन्य जनप्रतिनिधि उपस्थित थे। मुख्यमंत्री ग्वारीघाट में माँ नर्मदा की महाआरती में शामिल हुए मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान अपनी धर्मपत्नी श्रीमती साधना सिंह के साथ जबलपुर नर्मदा तट के प्रसिद्ध और मनोरम ग्वारीघाट में माँ नर्मदा की महाआरती में शामिल हुए। महाआरती में भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह भी शामिल हुए। उन्होंने श्रद्धापूर्वक माँ नर्मदा की पूजा अर्चना की। कार्यक्रम में नर्मदाअष्टक और नर्मदा जी की आरती का संगीत के साथ समवेत स्वर में गान किया गया। महाआरती में जन-प्रतिनिधि, साधु-संत और विभिन्न सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधि, बड़ी संख्या में नागरिक गण और नर्मदा भक्त मौजूद थे। नर्मदा के मनोरम तट ग्वारीघाट पर आज भव्य नर्मदा आरती का आयोजन किया गया। ग्वारीघाट को अच्छी तरह से सजाया गया था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 April 2017

राज्यपाल प्रो. कप्तान सिंह सोलंकी

जन-संवाद कार्यक्रम में हरियाणा के राज्यपाल प्रो. कप्तान सिंह सोलंकी  हरियाणा के राज्यपाल प्रो. कप्तान सिंह सोलंकी ने कहा है कि मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा आरंभ की गई नर्मदा सेवा यात्रा हमारे अस्तित्व के लिए अत्यन्त महत्वपूर्ण है। प्रो. सोलंकी रविवार को जबलपुर नगर में सेवा यात्रा के जन-संवाद को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि जन-जन को यात्रा से जुड़ कर इसे एक विराट जनान्दोलन का स्वरूप देने के लिए आगे आना होगा। राज्यपाल प्रो. सोलंकी ने कहा कि प्रत्येक सरकार का कर्त्तव्य है कि उसके क्षेत्र में सर्वतोमुखी विकास सुनिश्चित हो। मध्यप्रदेश में एक प्रतिबद्ध और जन-सेवा को समर्पित सरकार के ईमानदार प्रयासों से प्रदेश की तस्वीर बदली है। पिछड़े प्रदेश के रूप में जाने जाने वाले मध्यप्रदेश ने विकास की दिशा में इतनी लम्बी छलांग लगाई है कि आज प्रदेश के सर्वतोमुखी विकास को देख सब आश्चर्यचकित हैं। प्रो. सोलंकी ने कहा कि नर्मदा सेवा यात्रा न केवल प्रदेश और देश वरन सम्पूर्ण विश्व को प्रभावित कर रही है। प्रो. सोलंकी ने कहा कि मनुष्य का अस्तित्व जल, जंगल, जमीन, जानवर, जलवायु और जन पर निर्भर है। इस परिप्रेक्ष्य में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सबके भविष्य की चिन्ता की और नर्मदा सेवा यात्रा के माध्यम से मानव के अस्तित्व को खतरे से बचाने के सिलसिले में महत्वपूर्ण पहल की। राज्यपाल ने विश्वास व्यक्त किया कि श्री चौहान द्वारा आरंभ यह जनान्दोलन एक प्रभावशाली जन-जागरण अभियान साबित होगा। जनसंवाद में श्री वी.डी. शर्मा ने कहा कि नर्मदा यात्रा नदी संरक्षण का दुनिया का सबसे बड़ा अभियान है। उन्होंने कहा कि यात्रा आज सरकार एवं संत समाज के प्रबल प्रयासों से एक जनान्दोलन का स्वरूप ले चुकी है। समाज के सभी वर्ग, धर्म और क्षेत्र के लोग इसमें योगदान दे रहे हैं। श्री शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री ने नर्मदा को अविरल रूप से प्रवाहमान बनाने के उद्देश्य से तय किया है कि 2 जुलाई को नर्मदा जी के तटों पर 5 करोड़ वृक्ष लगाए जाएंगे। उन्होंने नर्मदा तटों से 5 किलोमीटर की दूरी तक नशाबंदी की दिशा में सरकार की पहल और अभियान के बाद आने वाले समय में नर्मदा संरक्षण के प्रयासों को जारी रखने के लिए गठित की जा रही नर्मदा सेवा समितियों का भी उल्लेख किया। इसके पूर्व सिन्धी धर्मशाला के सभागार में राज्यपाल प्रो. सोलंकी का पुष्प-वर्षा कर स्वागत किया गया। प्रो. सोलंकी ने नर्मदा ध्वज और कलश का पूजन कर कन्या-पूजन भी किया। अंत में राज्यपाल प्रो. सोलंकी ने उपस्थित जन-समुदाय को नर्मदा जी के संरक्षण के प्रति आम लोगों को जागरूक करने के साथ-साथ वृक्षारोपण, स्वच्छता, जल संरक्षण, प्रदूषण की रोकथाम, जैविक खेती को प्रोत्साहित करने, फलदार व छायादार वृक्षों एवं कृषि वानिकी के लिए उपयोगी पौधों को रोपने का संकल्प दिलाया। उन्होंने माँ नर्मदा की निर्मलता को अक्षुण्ण बनाए रखने का हरसंभव प्रयास करने एवं जन-समुदाय को भी इस दिशा में प्रेरित करने का भी आव्हान किया। इस मौके पर वन, योजना, आर्थिक-सांख्यिकी एवं जिला प्रभारी मंत्री डॉ गौरीशंकर शेजवार, किसान-कल्याण एवं कृषि विकास मंत्री गौरीशंकर बिसेन, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री श्री रूस्तम सिंह, चिकित्सा शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री शरद जैन एवं पूर्व मंत्री श्री अजय विश्नोई, महामण्डलेश्वर अखिलेश्वरानंद महाराज, यात्रा के प्रदेश संयोजक डॉ जितेन्द्र जामदार तथा जन अभियान परिषद् के प्रदेश उपाध्यक्ष श्री प्रदीप पाण्डे भी मौजूद थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 April 2017

जबलपुर

“नमामि देवि नर्मदे” - सेवा यात्रा आज जबलपुर के शहपुरा विकास खंड के बिलपठार ग्राम में पहुँची। यहाँ यात्रा का जन-जन ने स्वागत किया। इसके बाद विधायक श्रीमती प्रतिभा सिंह ने नर्मदा सेवा यात्रा समिति बिलपठार, रमखिरिया के सदस्यों की घोषणा की। उन्होंने जन-समुदाय को नर्मदा रक्षा का संकल्प भी दिलवाया। कमलगिरि बने तिलक बाबा श्री कमलगिरि अब तिलक बाबा के नाम से जाने जाते हैं। वे महेश्वर जिला खरगोन से नर्मदा यात्रा में 4 मार्च को शामिल हुए और यात्रा के अगले पड़ाव पहुँचने के पहले पहुँच कर लोगों को तिलक लगा रहे हैं। उन्होंने स्वयं की गाड़ी से लगभग एक हजार किलोमीटर और लगभग ड़ेढ लाख लोगों को तिलक लगाया है। वह यात्रा मार्ग में काँटें आदि की साफ-सफाई भी स्वेच्छा से कर रहे हैं। श्री विनय सिंह ने बताया कि उनके चंदन के तिलक से ठंडक प्राप्त होती है। लोग उनसे खुशी-खुशी तिलक लगवा रहे हैं। संत अखिलेश्वरानंद जी महाराज ने जन-संवाद में यात्रा का अध्यात्मिक और वैज्ञानिक महत्व समझाया। उन्होंने कहा कि पर्यावरणविद पर्यावरण की रक्षा करने को कहते हैं, यह कार्य प्रकृति के साथ छेड़-छाड़ नहीं करने से ही हो सकता है। इसके लिए पॉलीथिन का उपयोग करना मानव को बंद करना होगा। महाराज ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने नर्मदा यात्रा के उद्देश्य में स्वच्छता, पौध-रोपण, नशामुक्ति का संकल्प आदि का समावेश कर यात्रा को अभियान का रूप दिया है। उनके संकल्प के साथ उनकी पत्नि श्रीमती साधना सिंह यात्रा में शामिल रहती हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री और उनकी पत्नि द्वारा गोमती नदी के संरक्षण के लिए जिस प्रकार सत्-युग में मनु-सतरूपा ने काम किया था, उस प्रकार नर्मदा की रक्षा के लिए काम कर रहे हैं। उनके साथ ऋषि-मुनि भी इस अभियान में जुड़ रहे हैं। मुख्यमंत्री का संकल्प आज जन-जन का संकल्प बन गया है। उन्होंने नशामुक्ति के लिए शराबबंदी कर मुख्यमंत्री राजस्व संग्रहण का जल्द ही दूसरा विकल्प भी ढूंढेंगे। नर्मदा की निर्मल अविरल धारा के लिए यह अभियान अनुष्ठान बन गया है और अनुष्ठान से शक्ति प्राप्त होती है। महाराज ने कहा कि 2 जुलाई को एक करोड़ पौध-रोपण का काम किया जाएगा, जो 15 करोड़ पौधे लगाकर पूरा होगा। उन्होंने कहा कि जल संरक्षण के लिए मुख्यमंत्री ने जनता, संत-महात्मा और शासन-प्रशासन का त्रिभुज बनाया है। उन्होनें कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान को महामंडलेश्वर बोलना चाहिए। उनकी वाणी से धारा-प्रवाह सदवचन निकलते हैं। यात्रा के प्रदेश संयोजक डॉ जितेन्द्र जामदार ने कहा कि माँ नर्मदा से प्राप्त बिजली से प्रदेश रोशन हो रहा है। नर्मदा-जल से प्रदेश की जल आपूर्ति हो रही है और प्रदेश की 60 प्रतिशत भूमि को सिंचित कर भोजन की व्यवस्था कर रही है। ऐसी बिजली, पानी और भोजन देने वाली नर्मदा की जन-जन को चिंता करनी होगी। वृक्ष नर्मदा के लिए बैंक का काम करते हैं। वृक्षों के जरिए ही नर्मदा को जल प्राप्त होता है। उन्होंने कहा कि किसानों को रसायनिक कृषि छोड़कर जैविक कृषि अपनानी होगी। संचालन जिला भाजपा (ग्रामीण) अध्यक्ष श्री शिव पटेल ने किया। कार्यक्रम में लोगों के हाथों में स्वच्छता का संदेश दिखा। इस मौके पर मंडी अध्यक्ष श्री नीरज सिंह, सरपंच, जन-प्रतिनिधि सहित जन-समुदाय उपस्थित था।    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 April 2017

नर्मदे यात्रा

'नमामि देवी नर्मदे''-सेवा यात्रा स्वर्णिम मध्यप्रदेश की आधार-शिला बनेगी। यात्रा के माध्यम से माँ नर्मदा ही नहीं अन्य नदियों के संरक्षण के प्रति लोगों में जागरूकता आएगी। नदियाँ यदि संरक्षित होंगी तो प्रदेश का विकास सुनिश्चित है। वक्ताओं ने यह बातें यात्रा के 115वें दिन जबलपुर जिले के ग्राम जमखार, गुदरई, सुनाचर, मनकेड़ी, कुसली, इमालिया, उमारिया, सुरई और नटवारा में जनसंवाद में कही। मुस्लिम भाइयों ने किया यात्रा का स्वागत जबलपुर जिले के ग्राम उमरिया में मुस्लिम भाइयों ने पुष्प-वर्षा कर यात्रा का स्वागत किया। श्री शेख रूस्तम खॉन ने सिर पर नर्मदा कलश रखकर यात्रा में सह-भागिता की। इनके साथ ही जमील भाई, अमील भाई, शेख बशीर ,शेख नूर मोहम्मद, शेख शुकरुद्दीन सहित अन्य मुस्लिम भाई यात्रा का ध्वज लेकर चले। जन-संवाद में महामंडलेश्वर अखिलेश्वरानंद गिरि ने बताया कि नर्मदा नदी की उत्पत्ति भगवान शंकर के पसीने से हुई है। माँ नर्मदा को भगवान शिव ने आशीर्वाद दिया था कि उसका हर कंकर शंकर होगा। उन्होंने बताया ‍कि माँ नर्मदा ने अपनी कमज़ोर होती सहेली शिप्रा, गंभीर और साबरमती नदी को जीवनदान दिया है। अब हमें नर्मदा की क्षीण होती धारा को सशक्त बनाना है। स्वामी जी ने बताया कि 2 जुलाई को नर्मदा के दोनों तटों पर एक-एक किलोमीटर की परिधि में मिट्टी की तासीर के अनुसार पौधे लगाए जायेंगे। स्वामी जी ने स्वागतम् लक्ष्मी योजना में एक बच्ची का कल्याणी नामकरण किया। यह नर्मदा के नामों में से एक नाम है। यात्रा के प्रदेश संयोजक डॉ जितेन्द्र जामदार ने कहा कि माँ नर्मदा का कर्ज़ चुकाने के लिये यह यात्रा निकाली गई है। उन्होंने कहा कि अपनी माँ तो सिर्फ डेढ़-दो साल ही दूध पिलाती है जबकि मॉं नर्मदा जन्म से लेकर मृत्यु तक जल पिलाती है। डॉ जामदार ने बताया कि नर्मदा नदी को जानवर नहीं मानव ही दूषित करते हैं। अत: इसे स्वच्छ करने की जिम्मेदारी भी हमारी ही है। विधायक श्रीमती प्रतिभा सिंह ने जन-समुदाय को नदी संरक्षण, पर्यावरण संरक्षण, नशा मुक्ति, पौध-रोपण, जैविक खेती और बेटी बचाओ - बेटी पढ़ाओ का संकल्प दिलाया। उन्होंने नर्मदा सेवा समिति के सदस्यों के नामों की घोषणा भी की। जन-संवाद में नदी संरक्षण और स्वच्छता के क्षेत्र में बेहतर कार्य करने वाली ग्राम पंचायतों के सरपंच और सचिव को सम्मानित किया गया। ग्राम मेरागांव के सरपंच ने हिरण नदी से 1100 ट्राली जलकुंभी निकलवाई है। यात्रा का हर गाँव में ढोल-ढमाकों के साथ ग्रामीणों ने स्वागत किया। हर गाँव में नर्मदा कलश और ध्वज की पूजा की गई।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 April 2017

ऑर्डनेंस फैक्‍टरी बम फाटे

    जबलपुर की आयुध निर्माणी खमरिया में शनिवार शाम करीब 6 बजे एक के बाद एक 200 से ज्यादा बमों के फटने के धमाके हुए। इससे आसपास का पूरा क्षेत्र दहल गया। आग की लपटें डेढ़ से 2 किमी दूर से दिखाई दे रही हैं। निर्माणी के एफ-3 सेक्शन में यह घटना बॉर वैगन में 125एमएम (एंटी टैंक एम्युनेशन) बमों की लोडिंग करते समय हुई। बमों में धमाके होते ही कर्मचारियों में भगदड़ की बन गई। धमाकों के तुरंत बाद फैक्ट्री के सभी गेट बंद कर दिए गए। इससे शाम की शिफ्ट के करीब डेढ़ सौ कर्मचारी अंदर ही फंस गए। एफ-3 सेक्शन की बिजली सप्लाई भी बंद कर दी गई है, ताकि शार्ट सर्किट से कहीं और बमों में विस्फोट न हो। धमाकों की आवाज सुनकर कर्मचारियों के परिजन और कर्मचारी नेताओं की भीड़ खमरिया के गेट नं.1, 3 के सामने लग गई। हर मिनट में दो से तीन बम धमाकों की आवाज गूंज रही थी। आयुध निर्माणी की फायर ब्रिगेड ने मौके पर आग बुझाना शुरू कर दिया था, वहीं नगर निगम, जीसीएफ और व्हीकल फैक्टरी की फायर ब्रिगेड भी आग बुझाने में लगी हुई हैं। घटना की जानकारी मिलते ही कलेक्टर और एसपी सहित पुलिस-प्रशासन का अमला भी मौके पर पहुंच गया है। आसपास के गांवों में दहशतखमरिया में होने वाले धमाकों की आवाज सुनकर रांझी, मानेगांव, रिठौरी, बिलपुरा, चंपानगर, पिपरिया आदि क्षेत्र में खलबली मच गई। दहशत के कारण लोग घरों को छोड़कर सुरक्षित स्थानों के लिए शहर की तरफ भागे। आग की लपटें देखकर ईस्टलैंड, वेस्टलैंड और आस-पास के गांवों में बसे कर्मचारियों के परिवार के लोग दौड़-भागकर खमरिया फैक्ट्री पहुंच रहे हैं। वहीं यह घटना होने के बाद निर्माणी के अधिकारियों ने फोन पर बात करना तक बंद कर दिया है। कर्मचारी नेता बताते हैं कि एफ-3 सेक्शन में बमों की फिलिंग (खोल में बारूद भरना) का काम होता है। इसके बाद बमों को पास की बिल्डिंग नंबर 324 में स्टोर करके रखा जाता है। इस बिल्डिंग में करीब 12 हजार 500 से ज्यादा बम स्टोर हैं। एक बम गिरने से वह फट गया और इसके बाद एक के बाद एक लगातार बमों में धमाके होते रहे। वहीं कुछ कर्मचारियों का कहना है कि गर्मी बढ़ने की वजह से भी बम फट सकते हैं। हालांकि, कारणों का खुलासा विस्तृत जांच के बाद ही होगा।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 March 2017

मुख्य न्यायाधिपति जस्टिस  हेमंत गुप्ता

  राज्यपाल  ओम प्रकाश कोहली ने मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय के नवनियुक्त मुख्य न्यायाधिपति जस्टिस श्री हेमंत गुप्ता को आज राजभवन में पद की शपथ दिलाई। इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान, वित्त मंत्री श्री जयंत मलैया, स्कूल शिक्षा मंत्री कुँवर विजय शाह, विधि एवं विधायी मंत्री श्री रामपाल सिंह, सामान्य प्रशासन राज्य मंत्री श्री लाल सिंह आर्य, पशुपालन, मछुआ कल्याण मंत्री श्री अंतर सिंह आर्य भी उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन मुख्य सचिव श्री बसंत प्रताप सिंह ने किया। शपथ ग्रहण समारोह में राज्य निर्वाचन आयुक्त  आर. परशुराम, सूचना आयुक्त श्री पी.पी तिवारी, पुलिस महानिदेशक  ऋषि कुमार शुक्ला, प्रदेश के न्यायालयों के न्यायाधीश, विधि, प्रशासन और पुलिस विभाग के वरिष्ठ अधिकारी, अभिवक्ता तथा पत्रकार और गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 March 2017

ias mohanti

  एमपी के एसीएस और माध्यमिक शिक्षा मंडल के अध्यक्ष एसआर मोहंती के खिलाफ चल रही ईओडब्ल्यू की जांच को हाईकोर्ट ने आज खारिज कर दिया है। हाईकोर्ट के जस्टिस गंगेले और जस्टिस श्रीवास्तव की डबल बेंच ने साफ कहा कि ईओडब्ल्यू की जांच सुप्रीम कोर्ट के निदेर्शों के मुताबिक नहीं हो रही थी। सुप्रीम कोर्ट ने साफ कहा था कि पूरे मामले की जांच नए सिरे से होनी चाहिए लेकिन ईओडब्ल्यू ऐसा नहीं कर रही है। इसके साथ ही हाईकोर्ट ने मोहंती के खिलाफ जारी की गई अभियोजन की मंजूरी को भी खारिज कर दिया। कोर्ट ने आदेश में यह भी कहा है कि जब सुप्रीम कोर्ट का निर्देश फ्रेश इन्क्वायरी करने का था तब वर्ष 2004 से वर्ष 2011 के बीच के दस्तावेजों का इस्तेमाल क्यों किया जा रहा था? हाईकोर्ट ने कहा है कि अगर ईओडब्ल्यू को दोबारा जांच करनी है तो वह नए सिरे से पूरी जांच को शुरू करे और 2011 के पहले की केस डायरी और दूसरे दस्तावेजों का उपयोग इसमें नहीं किया जाएगा। उसे पूरी जांच नए सिरे से करनी होगी और दस्तावेजों के लिए भी उसी तरह से काम करना होगा। गौरतलब है कि इस जांच के खिलाफ मोहंती हाईकोर्ट चले गए थे। जहां पर बुधवार को अपना फैसला सुनाते हुए हाईकोर्ट ने साफ कर दिया कि मोहंती के खिलाफ जारी जांच को खारिज किया जाता है क्योंकि ईओडब्ल्यू ने नए सिरे से जांच नहीं की है जबकि सुप्रीम कोर्ट ने नए सिरे से जांच करने के निर्देश दिए थे। इतना ही नहीं, अभियोजन की मंजूरी को भी खारिज कर दिया है। दरअसल कोर्ट में सुनवाई के दौरान ईओडब्ल्यू 1994 में कैबिनेट के उस फैसले का प्रूफ नहीं दे पाया जिसके आधार पर यह मामला बनाया गया था। जानकारी के मुताबिक ईओडब्ल्यू ने कहा है कि 1994 में कैबिनेट ने यह निर्णय लिया था कि एमपीएसआईडीसी व्यापारियों को कोई लोन नहीं देगा। जब कैबिनेट के इस फैसले की कापी कोर्ट ने मांगी तो ईओडब्ल्यू के अफसर इसे पेश नहीं कर पाए। सूत्रों का कहना है कि 1994 में कैबिनेट का इस तरह का कोई फैसला हुआ ही नहीं था। ईओडब्ल्यू ने अपनी रिपोर्ट में 719 करोड़ रुपए के घोटाले की बात कही थी लेकिन यह फिगर वह अपनी रिपोर्ट में साबित नहीं कर सका। दरअसल जिस आकंड़े को बढ़ा चढ़ाकर पेश किया गया था, वह फर्जी निकला। इसी आधार  पर मोहंती को हाईकोर्ट से राहत मिल गई। उनके खिलाफ पिछले दिनों अभियोजन की मंजूरी सरकार की ओर से उस समय जारी की गई थी जब उनका नाम मुख्य सचिव के लिए चल रहा था। इसे सरकार के अंदर अफसरों की खींच-तान से जोड़कर देखा जा रहा था। मध्यप्रदेश के चुनिंदा और आक्रामक शैली के अफसरों में एसआर मोहंती का नाम गिना जाता रहा है। मोहंती के खिलाफ राजनीतिक लोग कम सक्रिय दिखाई दिए बल्कि उनकी बिरादरी से जुड़े कई आईएएस अफसरों ने उन्हें अपने-अपने स्तर पर उलझाए रखने की हर संभव कोशिश की ताकि वे प्रदेश के मुख्य सचिव न बन सकें। बुधवार को कोर्ट के फैसले के बाद यही अफसर बगलें झांकते हुए दिखाई दे रहे हैं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 March 2017

जबलपुर भेड़ाघाट

  जबलपुर भेड़ाघाट के सरस्वती घाट में मिली दो इंजीनियरिंग  छात्राओं की लाश,पुलिस ने की दोनो की शिनाख्त की। इन छात्राओं का नाम नेहा और काजल बताया गया है के मैहर की रहने वाली है।  पुलिस ने बताया कि दोनों छात्राएं जबलपुर के श्रीराम कॉलेज से पढाई कर रही थीं। दोनों  2 फ़रवरी से थी लापता थीं जिसकी  मढ़ोताल थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज हुई थी। पुलिस पूरे  मामले की जाँच कर रही है।   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 February 2017

ajay vishnoi

पूर्व मंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता और वर्तमान में भाजपा के नीति शोध विभाग के संयोजक अजय विश्नोई ने कटनी हवाला मामले में मंत्री संजय पाठक से इस्तीफा देने की मांग की है। विशेनोई का कहना है कि जब वे(विश्नोई)प्रदेश के मंत्री थे तब उनके भाई के यहां आयकर विभाग ने छापा मारा था और तब अजय विश्नोई ने नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दे दिया था।तीन साल की जांच के बाद जब विश्नोई के भाई इस मामले में बेदाग साबित हुऐ तब अजय विश्नोई वापस राज्य सरकार में मंत्री बन गये।अजय विश्नोई ने भाजपा से सवाल पूछा है कि जब मेरे भाई पर आरोप लगने के कारण मैने सिर्फ इसलिये इस्तीफा दे दिया कि मेरे कारण पार्टी और सरकार पर आंच न आये तो संजय पाठक ऐसा क्यों नही कर रहे।  विश्नोई ने भाजपा से पूछा है कि क्या अब और तब की पार्टी की सोच में अंतर आ गया या फिर पार्टी की परम्पराये बदल गयी।अजय विश्नोई ने यह भी कहा कि मेरे और संजय में शायद यह अंतर है कि मैं पार्टी का वर्षों पुराना निष्ठावान कार्यकर्ता हू और संजय अभी पार्टी में आये हैं।विश्नोई में पार्टी से यह भी साफ करने को कहा कि क्या संजय पाठक के लिये शुचिता का पालन करना जरुरी नही।विश्नोई भाजपा के तीसरे ऐसे नेता है जिन्होने कटनी हवाला मामले में पार्टी से अपना रोष व्यक्त किया है।इसके पहले पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर और सांसद प्रहलाद पटेल ,रघुनन्दन शर्मा भी असंतोष जाहिर कर चुके हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 January 2017

jabalpur

जबलपुर के चेरीताल स्थित पारिजात बिल्डिंग के सामने रात सवा 10 बजे अज्ञात हमलावरों ने कांग्रेस नेता राजू मिश्रा (34) और उसके साथी हिस्ट्रीशीटर कुक्कू पंजाबी (28) की बीच सड़क पर गोली मारकर हत्या कर दी। हमलावरों ने दमोहनाका-बल्देवबाग सड़क पर दोनों को घेरकर 25 से 30 राउंड गोलियां चलाईं। इसके बाद बदमाश भाग निकले। गोलियों की आवाज से अफरा-तफरी मच गई। आसपास के लोग सड़क पर ही अपना वाहन छोड़ जान बचाकर भाग निकले। हत्या का कारण अभी अज्ञात है। पारिजात बिल्डिंग के ठीक पीछे राजू मिश्रा का घर है। वह रात को अपने घर पर था। उसी समय कुक्कू ने फोन कर उसे बाहर बुलाया। दोनों बात करते-करते दूसरी ओर दमोहनाका-बल्देवबाग रोड स्थित कुंभारे हेल्थ क्लब तक पहुंचे। दोनों खड़े होकर बात करने लगे। इसी दौरान 6-7 मोटरसाइकिल सवार हमलावर पहुंचे और दोनों को घेर लिया। देखते ही देखते अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी गई। आसपास के लोग जब तक कुछ समझ पाते, तब तक हमलावर फायरिंग करके भाग निकले। राजू और कुक्कू मौके पर तड़पते रहे। कुक्कू को आंख में और राजू को पेट में एक-एक गोली लगी थी। आसपास खड़े लोगों ने दोनों को तत्काल उपचार के लिए मेट्रो अस्पताल पहुंचाया जहां देर रात डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। अस्पताल में देर रात तक कांग्रेस और भाजपा नेताओं की भीड़ लगी रही। पुलिस ने शवों को पीएम के लिए मेडिकल पहुंचा दिया। कुक्कू पंजाबी हिस्ट्रीशीटर है। जो लगभग 20 दिन पहले ही जेल से छूटा है। कुक्कू पर हत्या के "ङयास सहित 20 से ज्यादा मामले दर्ज हैं। इसके अलावा पारिवारिक प्रापर्टी विवाद भी है। राजू मिश्रा नगर निगम चुनाव के दौरान राजीव गांधी वार्ड से पार्षद पद के लिए कांग्रेस का प्रत्याशी रहा है। चुनाव के करीब एक साल बाद राजू मिश्रा के भाई का भी दमोहनाका क्षेत्र में विवाद हुआ था। उस दौरान उस पर भी फायरिंग हुई थी जिसमें उसे एक गोली लगी थी। इधर, डबल मर्डर के बाद मौके पर एसपी एमएस सिकरवार के अलावा क्राइम ब्रांच की टीम भी पहुंच गई थी। पुलिस का कहना है कि हत्या का कारण अज्ञात है लेकिन हत्यारे जिन गाड़ियों में आये थे उनमें से एक गाड़ी का नंबर ट्रेस कर लिया गया है। सीसीटीवी फुटेज भी खंगाले जा रहे हैं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 January 2017

shivraj singh

    वर्ल्ड रामायण कान्फ्रेंस में शिवराज  मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि भगवान राम जन-मानस के रोम-रोम में और हमारी साँस में बसे हैं। वे हमारा अस्तित्व, हमारे आराध्य और हमारे प्राण हैं। उन्होंने कहा कि भगवान श्री राम पर लिखित ग्रंथ रामायण अपने आप में अद्वितीय है। ग्रंथ में भगवान राम के व्यक्तित्व एवं कृतित्व का मनमोहक चित्रण किया गया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज जबलपुर में वर्ल्ड रामायण कान्फ्रेंस को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि भगवान राम हमारे दैनिक जीवन में इस तरह से जुड़े हैं कि ठेठ गाँव से लेकर शहरों तक में आज भी लोग आपस में मिलने पर राम-राम जरूर करते हैं। सामान्य व्यक्ति तकलीफ और दु:ख की स्थिति में अपने भगवान राम को याद करता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी मूलभूत अवधारणा है कि राम समस्त जड़-चेतन में मौजूद है। एक ही चेतना पूरे ब्रह्माण्ड में व्याप्त है और वह है राम। मुख्यमंत्री ने कहा कि रामायण आज के दौर में नैतिकता की प्रेरणा देने वाला सर्वश्रेष्ठ ग्रंथ है। उन्होंने कहा कि रामकथा पर केन्द्रित रामायण में आदर्श माता-पिता, भाई और सेवक आदि का उल्लेख समाज के लिये प्रेरणादायक है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने 'नमामि देवी नर्मदे'- नर्मदा सेवा यात्रा का उल्लेख करते हुए कहा कि नदियाँ केवल जल वाहिकाएँ नहीं, बल्कि साक्षात माँ का रूप हैं। उन्होंने कहा कि पर्यावरण की अनदेखी से जीवन-रेखा नर्मदा की जल-धार लगातार सिमटती जा रही है। मनुष्य ने निहित स्वार्थों के कारण नर्मदा के किनारे के वृक्षों को काटा। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्‍य सरकार ने नर्मदा को पुन: वेगवती बनाने का संकल्प लिया। अब नर्मदा के दोनों तट पर बड़े पैमाने पर पौध-रोपण किया जायेगा। जन-भागीदारी से माँ नर्मदा को हम हरियाली चुनरी ओढ़ा देंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि नर्मदा नदी का पानी साफ रहे, इसके लिये जगह-जगह पर ट्रीटमेंट प्लांट स्थापित किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि नर्मदा नदी के तटों के ग्राम में अगले वर्ष से शराब की दुकाने नहीं रहेंगी। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के सह सरकार्यवाहक डॉ. कृष्णगोपाल ने कहा कि मर्यादा पुरूषोत्तम राम का जीवन चरित्र लोगों के मन में इस प्रकार बैठ गया कि वह हर दिन नया लगता है। उन्होंने कहा कि देश की कोई ऐसी प्रांतीय भाषा नहीं है, जिसमें राम के चरित्र का वर्णन न हो। कान्फ्रेंस को संस्कृति राज्य मंत्री श्री सुरेन्द्र पटवा और आयोजन समिति के अध्यक्ष पूर्व मंत्री श्री अजय विश्नोई ने भी संबोधित किया। इस मौके पर स्मारिका का भी विमोचन किया गया। कान्फ्रेंस में परमपूज्य स्वामी श्यामदेवाचार्य जी महाराज, श्री अखिलेश गुमाश्ता, डॉ. बलराम सिंह, महापौर डॉ. स्वाति गोडबोले, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती मनोरमा पटेल, प्रमुख सचिव संस्कृति श्री मनोज श्रीवास्तव और श्री अशोक मनोध्या भी मौजूद थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 December 2016

jablpur

जबलपुर में  युवतियों से परिचय बनाकर उन्हें अपने फ्लैट में बुलाना और युवकों से रुपए की बात तय करके उन युवतियों के साथ रंगरलिया मनाने का व्यापार एक महिला अपने फ्लैट से चला रही थी। सूचना पर कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची और दबिश देकर दो युवकों और दो युवतियों और आरोपी महिला को गिरफ्तार किया। महिला पर देह व्यापार करने का मामला दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है। साथ ही युवक और युवतियों से पूछताछ की जा रही है। कोतवाली टीआई प्रफुल्ल श्रीवास्तव ने बताया कि शनिवार की शाम सूचना मिली कि महेश भवन गोपाल सदन के पास एक महिला अकेली फ्लैट में रहती है। जो युवतियों को अपने संपर्क में रखती है और फिर अपने घर में युवकों को बुलाती है। जिनसे रुपए लेकर वह देह व्यापार करा रही है। जिसपर वह स्टाफ के साथ मौके पर पहुंचे और दबिश दी। दबिश के दौरान फ्लैट के अंदर के कमरों में दो युवक और दो युवतियां संदिग्ध हालत में मिले। पुलिस जब अंदर युवक-युवतियों को पकड़ने के लिए घुसी तो महिला ने घर से भागने की कोशिश की। लेकिन उसे पुलिस ने पकड़ लिया। इसके बाद उन पांचों को गिरफ्तार कर थाने ले गए। महिला कई माह से यह काम कर रही है। लेकिन वह पहले बड़े ही छिपे तरीके से करती थी और पुलिस के आने की सूचना मिलते ही वह युवक-युवतियों को भगा देती थी। लेकिन इस बार पुलिस योजनाबद्ध तरीके से उसके फ्लैट में पहुंची थी।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 November 2016

dr jitendr jamdar

  भारतीय जनता पार्टी मध्यप्रदेश अध्यक्ष व सांसद  नंदकुमार सिंह चौहान ने प्रख्यात समाजसेवी डॉ. जितेन्द्र जामदार (जबलपुर) को नमामि देवी नर्मदे प्रकल्प का प्रदेश संयोजक नियुक्त किया है। डॉ. जामदार महाकौशल क्षेत्र के प्रख्यात चिकित्सक और समाजसेवी है। समाज और पर्यावरण के क्षेत्र में उनकी गहरी रूचि और विशेषज्ञता को देखते हुए भारतीय जनता पार्टी प्रदेश अध्यक्ष ने यह निर्णय किया है। मध्यप्रदेश सरकार द्वारा जो ‘नमामि देवी नर्मदे’ अभियान 11 दिसंबर से प्रारंभ होने वाला है, उस अभियान में भाजपा की ओर से समन्वय का संपूर्ण दायित्व डॉ. जामदार निभायेंगे। नर्मदा जी के सर्वांगीण विकास जैसे- स्वच्छता, वृ़क्षारोपण आदि की दिशा में सरकार द्वारा किये जाने वाले समग्र प्रयासों में संगठन की व्यापक भागीदारी तय करने के लिए डॉ. जामदार स्थान-स्थान पर नर्मदा सेवक समन्वयकों की नियुक्ति कर नर्मदा जी के प्रति जन-जागरण के कार्य को प्रभावी ढंग से आगे बढ़ायेंगे। मां नर्मदा के प्रति पूर्व से ही समाज के भीतर अगाध श्रद्धा है, इस श्रद्धा को एक सतत् कार्य में विकसित किया जा सके, यह सामाजिक प्रयास भारतीय जनता पार्टी संपूर्ण निष्ठा के साथ कर रही है। श्री चौहान ने आशा व्यक्त की है कि माता नर्मदा के तटों को न सिर्फ सुरक्षित किया जायेगा, बल्कि वे हरे-भरे हों और नदी की धारा निर्मल स्वरूप में प्रवाहित हो सके, इसके लिए भाजपा भरसक प्रयत्न कर रही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 November 2016

narmada

जबलपुर में  परम पुनीत कार्तिक मास की पूर्णिमा पर आज नर्मदा में डुबकी लगाने वाले भक्तों के पाप नष्ट हो जाएंगे। ऐसी मान्यता के साथ आज सुबह से नर्मदा तटों पर श्रद्धालुओं की भीड़ लगी रही। शास्त्रों, वेद एवं पुराणों के अनुसार कार्तिक पूर्णिमा में पवित्र स्नान करने से सौ जन्मों के पाप समाप्त हो जाते हैं और जीव को सभी तीर्थ में स्नान का पुण्य फल प्राप्त होता है। कार्तिक के पूरे महीने व्रत स्नान नहीं कर पाने वाले  केवल आज कार्तिक पूर्णिमा में पवित्र स्नान करने से मोक्ष का गामी हो जाता है। इसीलिए आज कार्तिक पूर्णिमा पर ग्वारीघाट, तिलवाराघाट, भेड़ाघाट, लम्हेटाघाट, सरस्वती घाट सहित शहर से लगे तमाम नर्मदा तटों पर भक्तों का मेला लगा है। लोग बड़ी संख्या में नर्मदा स्नान कर दान-पुण्य कर रहे हैं। सुबह से शुरु हुआ स्नान दान का क्रम रात तक चलेगा। आचार्य पं.वीरेन्द्र दुबे ने बताया कि कार्तिक माह अत्यधिक पवित्र माना जाता है। इस माह में की गई पूजा तथा व्रत से ही सभी तीर्थ यात्राओं के बराबर शुभ फलों की प्राप्ति हो जाती है। कार्तिक माह के महत्व के बारे में स्कन्द पुराण, नारद पुराण, पद्म पुराण आदि प्राचीन ग्रंथों में उल्लेख मिलता है। कार्तिक माह में किए स्नान का फल, एक सहस्र बार किए गंगा स्नान के समान, सौ बार माघ स्नान के समान है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 November 2016

shivraj jablpur

जबलपुर में सुपर स्पेशियलिटी ब्लॉक का शिलान्यास   केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री श्री जगत प्रकाश नड्डा ने कहा है कि मध्यप्रदेश सरकार की ईमानदार कोशिशों के चलते प्रदेश में स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने की दिशा में सराहनीय प्रगति हुई है। राष्ट्रीय पैमाने पर भी प्रदेश की स्थिति में सुखद बदलाव आया है। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि राज्य सरकार ने प्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाओं की बेहतरी के लिए सभी जरूरी कदम उठाए हैं। सरकार निर्धन तबके के लोगों तक स्वास्थ्य सुविधाएँ पहुँचाने के लिए प्रयत्नशील है। श्री नड्डा और श्री चौहान जबलपुर में मेडिकल कॉलेज में प्रस्तावित सुपर स्पेशियलिटी ब्लॉक के शिलान्यास कार्यक्रम में बोल रहे थे। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री  नड्डा ने कहा कि 150 करोड़ की लागत से तैयार होने वाला यह ब्लॉक आम लोगों को उच्च स्तरीय चिकित्सा मुहैया करवाने में मददगार होगा। श्री नड्डा ने विभिन्न स्वास्थ्य सूचकांकों को बेहतर बनाने में प्रदेश के योगदान को रेखांकित किया। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने जबलपुर में 120 करोड़ रूपए लागत से स्टेट कैंसर इंस्टीटयूट की स्थापना और एक ट्रामा यूनिट की भी घोषणा की। साथ ही एक सीजीएचएस डिस्पेंसरी की घोषणा की। श्री नड्डा ने अमृत कार्यक्रम का उल्लेख करते हुए कहा कि 2000 प्रकार की दवाइयाँ एमआरपी से 60 से 90 फीसदी कम दामों में उपलब्ध करवाई जा रही है। स्थान उपलब्ध करवाने पर इस योजना में मध्यप्रदेश में रिटेल स्टोर खोले जाएंगे। उन्होंने भरोसा दिलाया कि स्वास्थ्य सेवाओं के विस्तार और स्वास्थ्य सुविधाओं की बेहतरी के लिए राज्य सरकार के प्रयासों में हर जरूरी मदद दी जाएगी। मुख्यमंत्री चौहान ने केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री की घोषणाओं पर आभार जताया। श्री चौहान ने कहा कि सुपर स्पेशियलिटी ब्लॉक के तैयार होने से जबलपुर और निकटवर्ती जिलों के लोगों को इलाज के लिए बाहर जाने की मजबूरी से निजात मिल सकेगी। उन्होंने कहा कि किसी भी सरकार के लिए अपनी जनता को बेहतर से बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएँ उपलब्ध करवाना सबसे बड़ा दायित्व है। उन्होंने कहा कि राज्य बीमारी सहायता योजना में दो लाख रूपए तक के अधिकार कलेक्टरों को सौंपे गए हैं। हमारा प्रयास है कि किसी भी व्यक्ति को आर्थिक विपन्नता के चलते इलाज से वंचित न रहना पड़े। मुख्यमंत्री स्वेच्छानुदान की राशि दो से बढ़ाकर सौ करोड़ की गई है जिससे जरूरी होने पर निजी अस्पतालों में भी बीमार का इलाज सुनिश्चित किया जा सके। मुख्यमंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री बाल हृदय उपचार योजना में बच्चों के हृदय रोग के उपचार के कदम उठाए गए हैं। उन्होंने थैलीसीमिया रोग से ग्रस्त बच्चों के बोनमैरो ट्रांसप्लान्ट के लिए नई योजना पर विचार का भी जिक्र किया। केन्द्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री  फग्गन सिंह कुलस्ते ने कहा कि ब्लॉक के तैयार होने से जबलपुर सहित पूरे महाकौशल के लोगों के लिए उत्कृष्ट चिकित्सा सुविधाएँ उपलब्ध होंगी। उन्होंने कहा कि निर्धन तबके के बीमार लोगों तक स्वास्थ्य सुविधाएँ पहुँचाने की दिशा में केन्द्र और मध्यप्रदेश सरकार ने महत्वपूर्ण पहल की है। प्रदेश के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री  रूस्तम सिंह ने कहा कि ब्लॉक के तैयार होने से सात बीमारियों के इलाज के लिए स्पेशियलिटी उपलब्ध होगी। चिकित्सा शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार)  शरद जैन ने कहा कि डेढ़ सौ करोड़ की लागत वाले इस ब्लॉक के तैयार होने से बड़ी संख्या में नागरिक लाभान्वित हो सकेंगे। सांसद श्री राकेश सिंह ने भी संबोधित किया। प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के संयुक्त सचिव सुनील शर्मा ने कहा कि सुपर स्पेशियलिटी ब्लॉक का कार्य दिसम्बर 2017 तक पूरा कर लिया जाएगा। ब्लॉक में 206 बेड रहेंगे। इसमें 7 महत्वपूर्ण विभाग को सम्मिलित किया गया है। अस्पताल भवन में 6 आपरेशन थियेटर, 30 आईसीयू बेड, 8 प्राइवेट रूम तथा 18 डायलिसिस बेड भी उपलब्ध होंगे।मुख्यमंत्री श्री चौहान एवं केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री श्री नड्डा ने मुख्यमंत्री बाल ह्मदय उपचार योजना में हृदय रोगी बच्चों के इलाज के लिए कार्य-आदेश भी प्रदान किए।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 November 2016

lata aelkar

अनुसूचित जनजाति मोर्चा अध्यक्ष बने  गजेंद्र पटेल भाजपा के मध्यप्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार चौहान ने बुधवार को तीन मोर्चा अध्यक्षों की घोषणा कर दी। अभिलाष पांडे को युवा मोर्चा का अध्यक्ष बनाया गया है। महिला मोर्चा की अध्यक्ष लता एलकर तथा अनुसूचित जनजाति मोर्चा अध्यक्ष के रूप में गजेंद्र पटेल की घोषणा की गई है। मिशन 2018 की रणनीति मिशन 2018(विधानसभा चुनाव) को देखते हुए संगठन महामंत्री सुहास भगत अपने सिरे से टीम तैयार करना चाहते हैं। ऐसी पहले से ही उम्मीद थी कि मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष के पदों पर फेरबदल होगा या वे अपनी उम्मीदों पर खरा उतरे नेताओं को मौका देंगे। अभिलाष पांडे ने जबलपुर से अखिल भारती विद्यार्थी परिषद से अपनी छात्र राजनीती की शुरुवात की । विद्यार्थी परिषद् में नगर से लेकर प्रदेश मंत्री के दायित्व का निर्वहन किया , छात्र राजनीती में काम करते हुए म,प्र, में कई आंदोलनो के आंदोलन  संयोजक के रूप में नेतृत्व किया ।  और कई  बार पुलिस प्रसासन के साथ संघर्ष किया और लाठिया भी खाई ,और जेल भी गए ।10 साल परिषद्  में काम किया । 2 बार दिल्ली विश्वविद्यालय के छात्र संघ चुनाव में जिम्मेदारी का सफलता पूर्वक निर्वहन किया ।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 October 2016

suresh prbhu

    रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने नई ब्राडगेज लाइन पर जबलपुर से सुकरी मंगेला तक ट्रेन का मंच से बटन दबा ग्रीन सिग्नल देकर शुभारंभ किया। इस दौरान उनके साथ सीएम शिवराज सिंह चौहान भी मौजूद रहे। नैरोगेज को ब्रॉडगेज में बदलने में रेलवे को 38 साल लग गए। पहली बार मंगलवार को यात्रियों को लेकर पैसेंजर ट्रेन जबलपुर के मदलमहल स्टेशन से सुकरी मंगेला के लिए रवाना हुई। 46 किमी की दूरी ट्रेन 30 किमी की रफ्तार से तय करेगी। जबलपुर-सुकरी पैसेंजर चलने से यात्रियों को आवागमन में राहत मिलेगी। मदन महल टर्मिनल- मुख्य स्टेशन से ट्रेनों के लोड कम होगा। मुख्य रेलवे स्टेशन में वाईफाई सुविधा से पैसेंजर को मुफ्त इंटरनेट मिलेगा। इसके साथ ही मुख्य रेलवे स्टेशन में वाटर वेडिंग मशीन से प्लेटफार्म पर सस्ता आरओ वाटर मिलेगा। 1978 से जगी थी आस जबलपुर से महाराष्ट्र के गोंदिया तक 285.4 5 किमी नैरोगेज थी। इस ट्रैक का ब्रॉडगेज में बदलने के लिए 1978 में योजना बनी थी। सर्वे कार्य शुरू किया गया। इसके बाद प्रोजेक्ट पर कोई कार्य नहीं हुआ। 1996-97 में रेलवे बोर्ड ने प्रोजेक्ट को स्वीकृति दे दी। तीन गुना ज्यादा बढ़ गई लागत : शुरुआत में इस प्रोजेक्ट के लिए 386.30 करोड़ का बजट तय किया गया। लेकिन प्रोजेक्ट की देरी की वजह से इसकी लागत तीन गुना से ज्यादा बढ़ गई। इस समय लागत लगभग 12 सौ करोड़ हो गई है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 October 2016

 महर्षि वाल्मीकी सीता आश्रम बनाये जायेंगे

मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि वाल्मीकी समाज की जरूरतमंद महिलाओं को मदद के लिये महर्षि वाल्मीकी सीता आश्रम बनाये जायेंगे। उन्होंने कहा कि नगर के एक वार्ड का नाम महर्षि वाल्मीकी रखा जायेगा। श्री चौहान  जबलपुर में वाल्मीकी जयंती पर सामाजिक समरसता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि वाल्मीकी समाज की बेहतरी के लिये राज्य सरकार सभी जरूरी कदम उठायेगी। उन्होंने कहा कि समाज के पात्र लोगों को आवास योजना में न केवल भूखण्ड उपलब्ध करवाये जायेंगे, बल्कि उन्हें मकान बनाने में भी मदद दी जायेगी। समाज के बच्चों को 12वीं तक शिक्षण संस्थाओं में नि:शुल्क शिक्षा दी जायेगी। समाज के छात्रा-छात्राओं को मुख्यमंत्री छात्र गृह योजना से लाभान्वित किया जायेगा। कक्षा 12वीं में 75 प्रतिशत अंक लाने पर लेपटॉप दिया जायेगा। मेडिकल, इंजीनियरिंग, आईआईटी और आईआईएम में प्रवेश मिलने पर फीस का प्रबंध भी सरकार द्वारा किया जायेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं से समाज के लोगों को लाभान्वित किया जायेगा। श्री चौहान ने कहा कि महर्षि वाल्मीकी जैसा विद्वान दूसरा नहीं हुआ। उन्होंने रामायण जैसे महान ग्रंथ रचना की और सीता माता को अपने आश्रम में आश्रय दिया। वाल्मीकी जी ने भगवान राम के दोनों बच्चों को सभी प्रकार के युद्ध कौशल में पारंगत किया। श्री चौहान ने कहा कि इतिहास गवाह है कि वाल्मीकी समाज कभी अपने वचन से नहीं टलता और रक्त की अंतिम बूँद तक अपने वचन पर कायम रहता है। श्री चौहान ने उपस्थित जन समूह को अपने समाज, प्रदेश और देश को आगे बढ़ाने का संकल्प भी दिलवाया। मुख्यमंत्री ने महर्षि वाल्मीकी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर 11 कन्याओं का पूजन भी किया। मुख्यमंत्री ने समाज की विशिष्ट प्रतिभाओं का सम्मान एवं विभिन्न योजनाओं के अन्तर्गत हित लाभ भी वितरित किये। मुख्यमंत्री ने जबलपुर में महर्षि वाल्मीकी के नाम पर मंगल भवन निर्माण की घोषणा की। इस अवसर पर चिकित्सा शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) शरद जैन, विधायक  अंचल सोनकर और  प्रतिभा सिंह तथा अन्य गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 October 2016

मोदी के खिलाफ पोस्ट

फेस बुक पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर अभ्रद टिप्णणी  करने वाले कांग्रेस नेता एवं मझौली जनपद अध्यक्ष के बेटे के खिलाफ कल लोगों को गुस्सा उस वक्त फूट पड़ा जब पूर्व मंत्री अजय विश्नोई एक निजी कार्यक्रम में शामिल होने मझौली पहुंचे। भाजपा कार्यकर्ताओं सहित अन्य स्थानीय लोगों ने विश्नोई को बताया कि क्षेत्र में एक युवक द्वारा प्रधानमंत्री के खिलाफ अभद्र एवं अशोभनीय टिप्पणी करने से भारी नाराजी है क्योंकि  देश के प्रधानमंत्री को सोशल मीडिया के जरिए कांग्रेस से जुड़े लोग गाली दे रहे  हैं। बताया जाता है कि पूर्व मंत्री ने आक्रोशित लोगों को भरोसा दिलाया कि इसकी शिकायत एसपी डॉ आशीष से कर मामले की गंभीरता को देखते हुए जांच कराकर दोषी व्यक्ति पर कार्रवाई कराई जाएगी। जानकारी के मुताबिक मझौली नगर पंचायत अध्यक्ष आजाद साहू के बेटे राहुल साहू ने उरी हमले के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सोशल मीडिया में भड़काउ एवं अभद्र टिप्पणी कर दी। चंद दिनों में वही पोस्ट क्षेत्र के भाजपाईयों के मोबाइल पर पहुंची तो सब आक्रोशित हो गए। इसी बीच कल मझौली-पाटन क्षेत्र के पूर्व विधायक एवं पूर्व केबिनेट मंत्री अजय विश्नोई मझौली पहुंचे तो भाजपा कार्यकर्ताओं सहित स्थानीय लोगों ने राहुल साहू द्वारा मोबाइल पर की जा रही पोस्ट दिखाते हुए कार्रवाई कराने की बात कही। साइबर सेल से कराएंगे जांच भाजपा मंडल अध्यक्ष महेंद्र सिंह ने फेसबुक पोस्ट करने पर थाने में राहुल साहू के खिलाफ प्रकरण पंजीबद्ध कराने की बात कही, जिस पर अजय विश्नोई ने उन्हें भरोसा दिलाया कि साइबर सेल से पूरे मामले की जांच कराने के लिए पुलिस अधीक्षक से बात की जाएगी। पुलिस इस मामले में उचित कार्रवाई करेगी। ये लिखा गया फेसबुक पर संतोष मांझी नामक युवक ने अपने फेसबुक एकाउंट पर उरी हमले के बाद प्रधानमंत्री द्वारा दिए गए बयान की इलेक्ट्रानिक मीडिया की फोटो पोस्ट करते हुए लिखा कि ‘पाकिस्तान से लड़ाई लड़ रहे हैं कि वहां भी चुनाव लड़ना है’ इसी पोस्ट पर राहुल साहू ने मोदी लिखते हुए अश्लील कामेंट्स लिखकर पोस्ट कर दिया जिससे आक्रोश पनप रहा है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 October 2016

 जबलपुर अतिक्रमण

      जबलपुर में मंगलवार को रेतनाका से दो धार्मिक स्थल हटाने के बाद आज फिर जेएमसी के अतिक्रमण विरोधी अमले ने ग्वारीघाट की ओर कूच किया। जहां रेतनाका से ग्वारीघाट क्रासिंग तक प्रस्तावित कार्रवाई को अंजाम दिया जा रहा है। इससे पूर्व मंगलवार को निगम टूटने वाले दो मकानों को खाली करा उन परिवारों को रामपुर शिफ्ट करा चुका था।  अतिक्रमण विरोधी दल प्रभारी केके दुबे एवं सहायक  दल प्रभारी नरेंद्र कुशवाहा ने बताया कि ग्वारीघाट मार्ग पर कल लगभग 90 प्रतिशत कार्रवाई को अंजाम दिया जा चुका है। शेष मकानों के चिन्हित कब्जों को आज हटाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि क्रासिंग से रेतनाका तक करीब किसी निर्माण का 7 फीट तो किसी का 10 फीट हिस्सा तोड़ा जाना है। इस काम को आज पूरा कर लिया जाएागा। इसके अलावा यातायात थाना के सामने स्थित एक दुकान संचालक द्वारा कंजरवेंसी पर गेट लगा लिया था। जिसे सुबह-सुबह हटा दिया गया। जानकारी के मुताबिक एमएलबी स्कूल के पास स्थित नाले में पिछले कई दिनों एक ठेकेदार द्वारा डंपर द्वारा मिट्टी डाली जा रही थी। जिसे कई बार मिट्टी न डालने की हिदायत दी गई, किंतु इसके बावजूद भी वह मिट्टी डालने से बाज नहीं आया तो जेएमसी ने आज सुबह मिट्टी गिरा रहे डंपर को जब्त कर लिया।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 May 2016

जबलपुर में अमर शहीद रानी अवंती बाई की प्रतिमा का अनावरण

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जबलपुर के धनवंतरी नगर चौराहे पर अमर शहीद वीरांगना रानी अवंती बाई लोधी की प्रतिमा का अनावरण किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि हजारों क्रांतिकारियों ने अपने प्राणों की आहुति दी तब जाकर स्वतंत्रता मिली। उन्होंने कहा कि देश की आजादी के लिए शहीद प्रदेश के वीर सपूतों की स्मृति में भोपाल में एक भव्य शहीद स्मृति स्थल का निर्माण किया जाएगा, जहाँ उनके तैलचित्र एवं स्मृतियाँ संजोयी जायेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि पाठय-पुस्तकों में भी रानी अवंती बाई सहित प्रदेश के शहीदों के नाम पर एक पाठ जोड़ा जायेगा।मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि हजारों क्रांतिकारियों ने जब अपना सर्वस्व न्यौछावर कर दिया, तब कहीं हमें स्वतंत्रता हासिल हुई। उन्होंने तात्या टोपे, लाला हरदयाल, कुंवर सिंह, अशफाक उल्ला खाँ, राजगुरु, भगत सिंह, सुखदेव, चंद्रशेखर आजाद, राजा शंकर शाह, रघुनाथ शाह, भीमा नायक, टंट्या भील जैसे अमर शहीदों को याद किया । श्री चौहान ने वीरांगना की जयंती पर उन्हें श्रद्धा-सुमन अर्पित कर नागरिकों को रानी अवंती बाई के बताये रास्ते पर चलने का संकल्प दिलवाया। उन्होंने लोधी समाज की पत्रिका का विमोचन भी किया।मुख्यमंत्री ने त्रिपुरी वार्ड में 66 लाख से बने स्कूल भवन का लोकार्पण भी किया।समारोह को सासंद राकेश सिंह, सासंद प्रहलाद पटेल एवं महापौर प्रभात साहू ने भी संबोधित किया। लोधी समाज ने मुख्यमंत्री श्री चौहान का अभिनंदन किया । समाज ने प्रतिमा स्थापना में विशेष सहयोग के लिये महापौर प्रभात साहू, पूर्व महापौर श्रीमती सुशीला सिंह एवं श्री सदानंद गोडबोले का भी सम्मान किया।कार्यक्रम में विधायक अशोक रोहाणी, तरूण भानोत, जालम सिंह पटेल, प्रताप सिंह, पूर्व मंत्री राजबहादुर सिंह, पूर्व मंत्री हरेन्द्रजीत सिंह बब्बू, पूर्व सांसद शिवराज सिंह लोधी, पूर्व विधायक दशरथ सिंह एवं अन्य जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

शिवराज ने की भारतीय और अमेरिकी निवेशकों से अनौपचारिक चर्चा

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अमेरिका में भारतीय काउंसिल जनरल ध्यानेश्वर एम. मुले तथा भारतीयों और अमेरिकी निवेशकों के साथ औपचारिक मुलाकात की और मध्यप्रदेश से संबंध रखने वाले अप्रवासी भारतीयों के योगदान की सराहना करते हुए कहा कि प्रदेश के विकास के लिये परामर्श, विशेषज्ञता, निवेश और दोस्ती बहुत महत्वपूर्ण तत्व है।श्री चौहान ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा शुरू किये 'गये मेक इन इण्डिया' अभियान की चर्चा करते हुए कहा कि मध्यप्रदेश में पिछले एक दशक से इसी मूल भावना के अनुसार पहल की गई है। लोकोन्मुखी प्रधानमंत्री जन धन योजना में मध्यप्रदेश ने अग्रणी भूमिका निभाई है। उन्होंने कहा कि प्रदेश तेजी से हर क्षेत्र में आगे बढ़ रहा है। कई क्षेत्रों मे विकास के नये कीर्तिमान रचे गये हैं। प्रदेश में निवेश लाने के लिये उठाये गये कदमों को रेखांकित करते हुए श्री चौहान ने कहा कि वे प्रति सोमवार निवेशकों से सीधी चर्चा करते हैं। सिंगल विंडो की जगह अब सिंगल डोर व्यवस्था लागू की गई है। इससे निवेशकों को बगैर किसी बाधा के सहूलियतें मिलती हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश के विकास से हमने सिद्ध किया है कि कुछ भी असंभव नहीं है।मुख्यमंत्री के संबोधन के बाद सभी ने खड़े होकर देर तक ताली बजाते हुए उनके प्रति सम्मान प्रकट किया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

केन्द्र और राज्य मिलकर करें विकास

ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीइंदौर में ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि विकास के लिए केंद्र और राज्य सरकारों को मिलकर काम करना पडेगा । समिट में पहुँचने से पहले मोदी ने बीजेपी कार्यकर्ताओं को भी सम्बोधित किया भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि वह मध्यप्रदेश के सेवक की तरह कार्य करने के लिए तैयार हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान प्रदेश के विकास के लिए जो भी योजनाएं बनाते हैं उन्हें पूरा करने के लिए वह भरपूर सहयोग देगें। उन्होंने कहा कि मैं इस इन्वेर्स्टस समिट में पूरे दो दिन शामिल होना चाहता था लेकिन समय अभाव की वजह से यह संभव नहीं हो पाया। अपने दस मिनट के संबोधन में प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि यह ग्लोबल समिट सिर्फ मध्यप्रदेश के लिए ही नहीं बल्कि पूरे देश के लिए बेहद अहम हैं क्योंकि यहां जो भी निवेश होगा उससे प्रदेश ही नहीं देश का भी बड़ा फायदा होगा। अपना संबोधन समाप्त कर वह समिट स्थल पहुंचे जहां उन्होंने शंखनाद कर दीप प्रज्वलित किया और समिट का औपचारिक उद्घाटन किया। इसके बाद बॉलिवुड गायक शान ने मध्यप्रदेश गान प्रस्तुत किया। इन्वेस्टर्स समिट में भाग लेने आए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने समिट को संबोधित करते हुए कहा कि यह समिट एक ऎसा कार्य है जिसमें मुझे पूरे दो दिन शामिल होना चाहिए था लेकिन में ऎसा नहीं कर पाया लेकिन अगली बार जरूर कोशिश करूंगा। उन्होंने कहा कि देश की ताकत राज्यों में है और जो इसे समझता है वही देश का आगे बढ़ा सकता है। देश को आगे बढ़ाने के लिए राज्यों का आगे बढ़ना बेहद जरूरी है। केन्द्र और राज्य स्तंभ की तरह है सिर्फ एक स्तंभ मजबूत हो तो काम नहीं होगा इसके लिए सभी स्तंभों को मजबूत करने की जरूरत है। केन्द्र का यह दायित्व है कि सभी को लेकर आगे बढ़े।प्रधानमंत्री ने देश के विकास के लिए टीम इंडिया का कंसेप्ट देते हुए कहा कि टीम इंडिया से मेरा मतलब है प्रधानमंत्री और सभी राज्यों के मुख्यमंत्री मिलकर देश के विकास में योगदान दे तो फिर हम देखेगें की देश उन्नती की नई ऊंचाईयों का छूता है। मुख्यमंत्री रहते हुए मेरा अनुभव रहा है कि केन्द्र और राज्य में कभी 36 का आंकड़ा नहीं होना चाहिए। यह आंकड़ा बेहद खराब होता है। यदि यह आंकड़ा नहीं है तो प्रदेश विकास करता है लेकिन यदि दोनों के बीच यह आंकड़ा है तो इसका नुकसान कितना होता है यह शिवराजसिंह जी भी बड़ी अच्छी तरह जानते हैं क्यों कि उन्होंने भी दस साल इसे देखा है। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह के नेतृत्व की तारीफ करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि यदि, निती, नियत, ईरादा, लगन, साहस और लक्ष्य हो तो कोईं भी बीमार राज्य विकासशील बन सकता है और इसका सबसे बड़ा उदाहरण मुख्यमंत्री शिवराजसिंह और उनकी टीम ने दिया है जिसके लिए वह सभी अभिनंदन के पात्र हैं। प्रदेश के मुख्यमंत्री ने समिट को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री की तारीफों के पुल बांधाते हुए कहा कि उन्हें केन्द्र में शपथ लिए मात्र चार महीनें हुए हैं लेकिन इन चार महीनों में उन्होंने स्वयं का ही नहीं बल्कि देश का मान बढ़ाया है। उनकी भूटान, नेपाल और जापान की यात्रा से देश का लाभ हुआ। मैं आज भावविभोर हूं की वह हमारे बीच मौजूद हैं। उन्होंने ब्रिक्स देशें के समिट में भाग लिया और इसके बाद ब्रिक्स बैंक की घोषणा हुई जिसका अध्यक्ष भारत बना। इसके अलावा मुख्यमंत्री ने पिछले 7 सालों में प्रदेश की विकास दर लगातार दोहरे अंकों में होनें की बात कही। मुख्यमंत्री ने उन सभी उद्योगपतियों का भी धन्यवाद किया जिन्होंने प्रदेश में निवेश किया और कहा कि उन्हें यहां रूकना नहीं है बल्कि और आगे जाना है। मध्यप्रदेश वह राज्य है जो कि एक बार किया का हाथ पकड़ता है तो फिर छोड़ता नहीं है।समिट के औपचारिक उद्घाटन के बाद प्रदेश की उद्योग मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने प्रधानमंत्री का स्वागत करते हुए स्वागत भाषण दिया जिसमें उन्होंने भाजपा सरकार की केंन्द्र और प्रदेश में उपलब्घियों का उल्लेख करते हुए कहा कि मध्यप्रदेश 2005 से पहले एक बीमार राज्य था लेकिन सरकार बदलने के बाद प्रदेश ने लगातार विक ास किया और आज प्रदेश की कृषि विकास दर और जीडीपी दुगुनी हो गई है। उद्योग मंत्री ने यह भी कहा कि जिस तरह सत्ता परिवर्तन के बाद गुजरात ने मोदी जी के नेतृत्व में यह साबित किया की विकास केवल सहीं नेतृत्व से हो सकता है वैसे ही मध्यप्रदेश ने भी यह साबित किया है। अपने भाषण में उद्योग मंत्री ने आगे कहा कि देश में सरकार बदलने के मात्र तीन महिनों में देश में जो परिवर्तन आया है वह सबके सामने हैंप्रधानमंत्री के अलावा समिट में भाग लेने के लिए देश के कई जाने मानें उद्योगपति भी सुबह से ही इंदौर पहुंचना शुरू हो गए थे। इनमें केन्द्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर, हीरो मोटोकॉर्प के पवन मुजाल, मेदांत ग्रुप के डॉ. नरेश त्रेहान, रिलायंस गुप के मुकेश अंबानी और अनिल अंबानी, फ्यूचर ग्रुप के किशोर बियानी आदी शामिल हैं। इनके अलावा कुल 28 देशों के एबेंसेडर और 9 देशों के हाई कमिश्नर भी मौजूद हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

मध्यप्रदेश के गाँवों में भी  मास्टर प्लान

अमल में लाने के लिये शासन द्वारा विभागों को निर्देश दिनेश मालवीयविकेन्द्रीकृत नियोजन की अवधारणा को मूर्तरूप देते हुए मध्यप्रदेश में हर गाँव का मास्टर प्लान तैयार कर लिया गया है। ग्राम सभाओं द्वारा अनुमोदित गतिविधियों को मास्टर प्लान में शामिल किया गया है, जिनका जिला-स्तर पर विभागों द्वारा क्रियान्वयन किया जाना है। इस कार्य को तत्परता से करने के लिये शासन ने सभी विभागों को निर्देश जारी किये हैं।गाँव के लोगों से प्राप्त माँगों के आधार पर विभागों के जिला कार्यालयों में गतिविधियों को 5 श्रेणी में विभाजित किया गया है। पहली श्रेणी में उन गतिविधियों को लिया गया है, जिन पर अभी निर्णय लिया जाना है। दूसरी श्रेणी में अनुमोदित, तीसरी श्रेणी में भविष्य में शुरू की जाने वाली, चौथी श्रेणी में अनुपादेय (not feasible) तथा पाँचवीं श्रेणी में स्वीकृत हो चुकी गतिविधियों को रखा गया है। सभी विभाग से यह अपेक्षा की गई है कि वे विलेज मास्टर प्लान का क्रियान्वयन करने के लिये अपने जिला कार्यालयों को निर्देश दें।अनुमोदित गतिविधियाँ वे हैं जो विभाग द्वारा जिला-स्तर पर स्वीकृत हैं। ऐसी गतिविधियों का क्रियान्वयन जिला-स्तर पर चालू वित्तीय वर्ष में ही पूर्ण करवाने के निर्देश दिये गये हैं। पूर्व से स्वीकृत गतिविधियों के क्रियान्वयन की स्थिति की समीक्षा और स्टेटस अपडेट करने के निर्देश जारी किये गये हैं। जिन गतिविधियों पर अभी तक जिला-स्तर के कार्यालयों द्वारा कोई रिस्पांस नहीं दिया गया है, उसके कारणों की समीक्षा करने को कहा गया है। अनुपादेय गतिविधियों के कारणों की समीक्षा करने और राज्य-स्तर से उसके क्रियान्वयन की संभावनाओं पर विचार करने को कहा गया है। जिन गतिविधियों को जिला-स्तर पर आगामी वर्षों में स्वीकृत करने का कार्य किया जायेगा, उन्हें इस श्रेणी में रखे जाने के कारणों की समीक्षा करने के निर्देश दिये गये हैं, ताकि इनका बारहवीं पंचवर्षीय योजना की अवधि में क्रियान्वयन किया जा सके।विलेज मास्टर प्लान में 'अन्य' श्रेणी भी रखी गई है, जिसमें संचालित योजनाओं तथा कार्यक्रमों के अतिरिक्त गाँव के लोगों की माँग पर की जाने वाली गतिविधियों को शामिल किया गया है। राज्य-स्तर पर इनके क्रियान्वयन की संभावनाओं पर विचार करने को कहा गया है। विभागों को निर्देशित किया गया है कि वे अपने अधीनस्थ जिलों को विलेज मास्टर प्लान की सभी गतिविधियों का तत्परता से क्रियान्वयन करने के लिये कहे। साथ ही स्वीकृत गतिविधियों के क्रियान्वयन के संबंध में विभाग द्वारा विकसित साफ्टवेयर में जानकारी हर माह अपडेट की जाये।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

जबलपुर में विकसित होंगी नौकायन और साइकिलिंग की राष्ट्र स्तरीय सुविधाएँ

जबलपुर में राष्ट्र स्तरीय नौकायन और साइकिलिंग की सुविधाएँ विकसित की जायेंगी। इस कार्य में सेना भी सहयोग करेगी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के समक्ष आज ब्रिगेडियर अजीत सिंह ने नौकायन और साइकिलिंग सुविधाओं के विस्तार के बारे में प्रस्तुतीकरण किया।मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जबलपुर में साइकिलिंग अकादमी स्थापित करने का प्रस्ताव तैयार किया जाय। उन्होंने नौकायन के लिये आवश्यक अधोसंरचना विकसित करने के लिये राज्य सरकार द्वारा अपेक्षित सुविधाएँ उपलब्ध करवाने की सहमति दी। बैठक में बताया गया कि जबलपुर में विश्व-स्तरीय नौकायन और साइकिलिंग की आदर्श संभावनाएँ हैं। बरगी डेम और गौर नदी में नौकायन के लिये बेहतर स्थान हैं। इसी तरह जबलपुर में रानीताल में पूर्व में 5 करोड़ की लागत से साइकिलिंग का वेलोड्रम बनाया गया था। इसे सुधार कर पुन: तैयार किया जा सकता है। जबलपुर में उपलब्ध जल-संरचनाओं में विश्व-स्तरीय वॉटर स्पोर्टस टूरिज्म विकसित किया जा सकता है। यहाँ ओलम्पिक के लिये खिलाड़ी तैयार किये जा सकते हैं। प्रस्तुतीकरण के दौरान पूर्व मंत्री अजय विश्नोई, कर्नल सत्यजीत, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव इकबाल सिंह बैंस, प्रमुख सचिव खेल डॉ. एम. मोहन राव, मुख्यमंत्री के ओएसडी सुधीर सक्सेना और खेल संचालक उपेन्द्र जैन भी उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

Video
Advertisement
x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved ©2024 MadhyaBharat News.