Since: 23-09-2009

  Latest News :
क्रेडिट कार्ड से रेंट भरने पर लगेगा एक्स्ट्रा चार्ज .   कनाडा में हिंदू मंदिर की दीवारों पर भारत विरोधी नारे .   बाइडेन ने दिया मोदी को न्यौता .   7 लाख से कम आये वालों को नहीं देना पड़ेगा कोई टैक्स .   बजट में कुछ सामान हुए सस्ते कुछ महंगा.   पुणे में लग्जरी बस और ट्रक के बीच टक्कर 4 की मौत.   उमा भारती का बड़ा बयान नड्डा जी ने नहीं रोका होता तो खुल जाता शिव मंदिर का ताला.   ट्रक ने आयसर को मारी टक्कर, 5 लोगों की मौत.   मुझे गर्व है प्रदेश के पुलिस प्रशासन पर: शिवराज.   इंदौर में प्रोफेसर सस्पेंड .   मंदिर का ताला नहीं तोड़ने दे रहे है बीजेपी अध्यक्ष .   कमलनाथ झूठे है,जनता से झूठा वादा करते है -शिवराज .   केंद्रीय बजट से छत्तीसगढ़ के मिलेट मिशन को मिलेगा बढ़ावा: अरुण साव.   बजट में महंगाई और बेरोजगारी को कम करने की कोई व्यवस्था नहीं-मुख्यमंत्री बघेल.   देश बिक रहा है,ट्रेने रद्द हो रही है ये है मोदी सरकार की हालत .   पति ने कई सालों से संबंध नहीं बनाये तो पत्नी ने लगाई फांसी .   बीजेपी किसी को निमंत्रण नहीं देती जो आना चाहे आ सकता है-रमन सिंह .   अब बदलेगी ट्रैफिक पुलिस की जैकेट .  

रायगढ News


raigarh, MLA Chakradhar Singh Sidar , hand to hand walk

रायगढ़। ब्लॉक कांग्रेस कमेटी लैलूंगा के तत्वावधान में 26 जनवरी से हाथ से हाथ जोड़ो पदयात्रा शुरू हो गया है। ब्लॉकस्तरीय हाथ से हाथ जोड़ो पदयात्रा का शुभारंभ क्षेत्र के लोकप्रिय विधायक चक्रधर सिंह सिदार की अगुवाई में रविवार को ग्राम पंचायत फुलीकुंडा से किया गया।   इस अवसर पर ब्लॉक कांग्रेस कमेटी लैलूंगा का यह कार्यक्रम क्षेत्रीय विधायक चक्रधर सिंह सिदार, जनपद पंचायत लैलूंगा के अध्यक्ष किरण पैकरा, नगर पंचायत लैलूंगा के अध्यक्ष मंजू मित्तल, जिला पंचायत रायगढ़ के सदस्य एवं सभापति महिला बाल विकास यशोमती सिंह सिदार, जिला महिला कांग्रेस की अध्यक्ष विद्यावती कुंजबिहारी सिदार के गरिमामय उपस्थिति में प्रारंभ हुआ। जिसमें ब्लॉक कांग्रेस के पदाधिकारी, सभी प्रकोष्ठ के सैकड़ों की संख्या में कार्यकर्ताओं ने हिस्सा लिया।   कार्यक्रम में ग्राम पंचायत फुलीकुंडा में घर घर जनसंपर्क किया जा रहा है। केंद्र सरकार की जनविरोधी नीतियों, बढ़ती महंगाई, बेरोजगारी और देश में बढ़ती वैमनस्यता के खिलाफ लोगों को जागरूक किया जा रहा है। साथ ही छत्तीसगढ़ सरकार के विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं के संबंध में भी लोगों को जानकारी दे रहे हैं। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए क्षेत्रीय विधायक सिदार ने कहा कि कांग्रेश पार्टी द्वारा जिस तरह भारत जोड़ो अभियान पूरे भारतवर्ष में चलाया जा रहा है। उसी तरह हाथ से हाथ जोड़ो अभियान के तहत आने वाले 60 दिनों में पूरे लैलूंगा विधानसभा के 272 बूथों और 300 से ज्यादा ग्रामों में कांग्रेस के कार्यकर्ता जाएंगे एवं उन्हें केंद्र की जन विरोधी नीतियों से अवगत कराएंगे। साथ ही कांग्रेस की राज्य सरकार की उपलब्धियों और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं के संबंध में लोगों को जानकारी प्रदान करेंगे। ब्लॉक कांग्रेस कमेटी लैलूंगा के अध्यक्ष ठंडा राम बेहरा ने इस दौरान उपस्थित कार्यकर्ताओं में जोश भरते हुए कहा कि हम हर मतदान बूथों तक पहुंच कर राहुल गांधी के संदेश और केंद्र सरकार की नाकामियों का कच्चा चिठ्ठा हर घर तक पहुंचाने के लिए कांग्रेस के कार्यकर्ता तैयार हैं। आने वाले 60 दिनों में विधानसभा क्षेत्र के प्रत्येक मतदाता के घर तक हम पहुंचेंगे। कार्यक्रम में मुख्य रूप से ब्लॉक कांग्रेस कमेटी लैलूंगा के अध्यक्ष ठंडा राम बेहरा, ब्लॉक कांग्रेस कमेटी तमनार के अध्यक्ष बिहारी लाल पटेल, रवि यादव आदि के साथ सैकड़ों की संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 January 2023

 मिलेट कैफे

छत्तीसगढ़ में पहली बार महिला स्वरोजगार और उद्यमिता को बढ़ावा देने के लिए महिला समूहों के लिए मिलेट्स आधारित कैफे की शुरुआत की गयी थी। बाद में धीरे-धीरे प्रदेश भर में ऐसे कई मिलेट्स कैफे खुल रहे हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा, हमारे यहां मिलेट का रकबा भी बढ़ा है, उत्पादन भी बढ़ा है। उसको लेकर पूरा प्रोग्राम तैयार है। मिलेट कैफे भी हमारे यहां शुरू हो गया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने विधानसभा के शीतकालीन सत्र के दौरान मंत्रियो-विधायकों को मिलेट्स के व्यंजनों का भोज भी दिया था। उस भोज में केवल कोदो-कुटकी, रागी आदि से बने व्यंजन परोसे गए।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मन की बात में रविवार को छत्तीसगढ़ का विशेष जिक्र हुआ है। यह मिलेट यानी मोटे अनाज के उत्पादन और विकास से जुड़ी बातचीत के संदर्भ में आया है। प्रधानमंत्री मोदी ने श्रोताओं से कहा, जब छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जाने का मौका मिले तो मिलेट कैफे जाकर वहां के व्यंजनों का आनंद जरूर उठाएं। इस कैफे में रागी से बने पास्ता, चीला, इडली, मंचूरियन, मोमोज, पिज्जा, नूडल, दोसा, कोदो से बनी बिरयानी का स्वाद लिया जा सकता है।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मन की बात में रविवार को छत्तीसगढ़ का विशेष जिक्र हुआ है। यह मिलेट यानी मोटे अनाज के उत्पादन और विकास से जुड़ी बातचीत के संदर्भ में आया है। प्रधानमंत्री मोदी ने श्रोताओं से कहा, जब छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जाने का मौका मिले तो मिलेट कैफे जाकर वहां के व्यंजनों का आनंद जरूर उठाएं। इस कैफे में रागी से बने पास्ता, चीला, इडली, मंचूरियन, मोमोज, पिज्जा, नूडल, दोसा, कोदो से बनी बिरयानी का स्वाद लिया जा सकता है।प्रधानमंत्री मोदी ने जिस मिलेट कैफे का जिक्र किया है, वह रायगढ़ के नटवर स्कूल के पास चल रहा है। इसकी शुरुआत तत्कालीन कलेक्टर भीम सिंह ने मई 2022 में की थी। यह छत्तीसगढ़ का पहला मिलेट कैफै है। यहां पर रागी, कोदो, कुटकी जैसे मोटे अनाजों से बने लजीज व्यंजन परोसे जाते हैं। जिसमें स्वाद के मई साथ सेहत की जुगलबंदी होती है। इसके संचालन का जिम्मा पूरी तरह महिलाओं के हाथों में है। विकास संघ महिला समूह से जुड़ी महिलाएं यह कैफे चला रही हैं। इसमें तकनीकी सहयोग महिला बाल विकास विभाग और ट्रांसफॉर्मिंग रूरल इंडिया फाउंडेशन द्वारा दिया जा रहा है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 January 2023

raigarh, Sadanand , new captain ,Raigarh district

  रायगढ़। प्रदेश में शुक्रवार देर शाम आठ पुलिस अधिकारियों के तबादले का आदेश गृह विभाग द्वारा जारी किया गया है, जिसमें छह जिलों के एसपी और दो एडिशनल एसपी के नाम शामिल हैं। सदानंद को जिले का नया कप्तान बनाया गया है, वहीं अभिषक मीणा को राजनांदगांव भेजा गया है। बताते चलें कि बिलासपुर, रायगढ़, नारायणपुर, कोरबा, जीपीएम, राजनांदगांव जिलों के एसपी बदले गए हैं। जारी आदेश के अनुसार संतोष कुमार सिंह को कोरबा से बिलासपुर भेजा गया है। वहीं एसएसपी पारुल माथुर को एसीबी मुख्यालय रायपुर पदस्थ किया गया है, इसी तरह अभिषेक मीणा रायगढ़ से राजनांदगांव, सदानंद कुमार नारायणपुर से रायगढ़, उदय किरण जीपीएम से कोरबा, पुष्कर शर्मा एएसपी से एसपी नारायणपुर, योगेश पटेल एएसपी दंतेवाड़ा से एसपी कोरबा और प्रफुल्ल ठाकुर एसपी राजनांदगांव से एसपी मुख्यमंत्री सुरक्षा नियुक्त किये गए हैं। छत्तीसगढ़ में आईपीएस अधिकारियों का तबादला किया गया है, जिसमें बिलासपुर एसएसपी पारुल माथुर का भी नाम शामिल है आपको बता दें तबादला आदेश में 8 जिलों के एसपी का ट्रांफर किया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 January 2023

नवीन जिंदल को मिली धमकी

जिंदल कंपनी के मालिक नवीन जिंदल को कैदी ने धमकी दी। बिलासपुर केंद्रीय जेल से पत्र लिखकर जिंदल कंपनी के चेयरमैन नवीन जिंदल को धमकी देने का मामला सामने आया है। बदमाश ने जिंदल से पांच मिलियन ब्रिटिश पाउंड की फिरौती मांगी है। 48 घंटे के भीतर फिरौती की रकम न देने पर उन्हें जान से मारने की धमकी भी दी गई है।रायगढ़ के पतरापाली स्थित जिंदल स्टील एंड पावर लिमिटेड के महाप्रबंधक की शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। मामला कोतरा रोड थाना क्षेत्र का है। इस मामले में जेल में बंद एक कुख्यात कैदी का नाम आ रहा है।महाप्रबंधक सुधीर राय ने पुलिस को बताया कि 18 जनवरी को डाक के माध्यम से उन्हें एक लिफाफा मिला, जिसमें जिंदल स्टील एंड पावर लिमिटेड के चेयरमैन नवीन जिंदल का नाम लिखा हुआ था। लिफाफा खोलकर देखने पर उसमें धमकी भरा पत्र मिला है। उसमें गाली देते हुए अभद्र भाषा का प्रयोग किया गया है और पांच मिलियन ब्रिटिश पाउंड की फिरौती मांगी गई है।धमकी भरा यह पत्र लाल स्याही से लिखा गया है, जिसमें केंद्रीय जेल बिलासपुर के कैदी क्रमांक 4563/97 लिखा हुआ है। लेटर में प्रेषक आई जुनार राजेंद्र नगर लिखा है। केंद्रीय जेल से मिले इस लेटर के बाद जिंदल कंपनी प्रबंधन में हड़कंप मच गया।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 January 2023

कागजों पर नहीं फील्ड में दिखना चाहिए काम-कलेक्टर रानू साहू

समाधान शिविर के माध्यम से जनसामान्य के समस्याओं का हो त्वरित निराकरण   सरकार तुंहर द्वार अंतर्गत जिले में निवासरत जनसामान्य को उनकी समस्याओं के निराकरण व समाधान उपलब्ध कराये जाने हेतु विकासखण्डों में आगामी माह से वृहद समाधान शिविर आयोजन किया जाना है, ताकि शिविर स्थल पर ही हितग्राहियों को उनसे जुड़े प्रमाण पत्र, दस्तावेज, सेवा प्रदान कर उनकी समस्याओं का निराकरण हो सके। उक्त बातें कलेक्टर  रानू साहू ने कलेक्टोरेट सभाकक्ष में आयोजित साप्ताहिक समय-सीमा की बैठक में कही। कलेक्टर  साहू ने विभागीय अधिकारियों को कहा कि पुसौर ब्लाक के ग्राम-सूपा में आगामी 9 नवम्बर को समाधान शिविर आयोजित किया जाएगा। उन्होंने उक्त शिविर हेतु ग्राम पंचायतों में विभागवार डोर टू डोर सर्वे करके हितग्राहियों का रजिस्टर संधारित करते हुए उनके आवेदनों का समाधान व निराकरण शिविर से पूर्व करने के निर्देश दिए। उन्होंने समस्त जनपद सीईओ को वृहद समाधान शिविर की तिथि एवं स्थल के संबंध में दीवाल लेखन कराने के निर्देश दिए, ताकि जनसामान्य के बीच इसका ज्यादा से ज्यादा प्रचार हो और वे इसका लाभ उठा सके। उन्होंने कहा कि शिविर में ज्यादा से ज्यादा मामले राजस्व से जुड़े होते है। इसलिए सभी राजस्व अधिकारी फौती नामांतरण, आपसी बंटवारा, सीमांकन, किसान किताब प्रदाय जैसे कार्याे के लिए एक्टिव रहें। उन्होंने सभी एसडीएम को निर्देशित कि सभी पटवारी फील्ड में रहना सुनिश्चित करें, ताकि जनसामान्य के प्रकरणों का त्वरित निराकरण हो सके। उन्होंने जिला स्तरीय अधिकारियों को कहा कि अब कार्य कागजों पर नहीं बल्कि फील्ड में दिखना चाहिए। कलेक्टर  साहू ने स्वास्थ्य शिविर की जानकारी लेते हुए गत दिवस आयोजित स्वास्थ्य शिविर के संबंध में स्पेशलिस्ट डाक्टरों, सरपंच एवं जनसामान्य से फीड बैक लेने को कहा। जिससे शिविर को और बेहतर किया जा सके। उन्होंने सीएमएचओ से कहा की स्वास्थ्य शिविर में मेडिकल बोर्ड उपस्थित रहे जिनके माध्यम से दिव्यांगों का चेकअप कर उन्हे दिव्यांगता सर्टिफिकेट प्रदान किया जा सके। इस दौरान उन्होंने स्वास्थ्य शिविर से रेफर मरीजों की जानकारी लेते हुए उन मरीजों की नियमित मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिए। कलेक्टर साहू ने छोटे बच्चों को चिन्हांकित करने के निर्देश दिए जो बोल व सुन नहीं सकते है। जिससे उन्हें बेतहर उपचार कर उनकी समस्याओं का समाधान किया जा सके। इस दौरान उन्होंने समाज कल्याण को निर्देशित किया कि स्वास्थ्य शिविर में दिव्यांगो को पेंशन, सहायक उपकरण प्रदाय किया जाए। उन्होंने महिला बाल विकास के कार्यों के अद्यतन प्रगति की समीक्षा करते हुए बाल संदर्भ शिविर की जानकारी ली एवं एनआरसी में शत-प्रतिशत भर्ती के निर्देश दिए। उन्होंने सक्षम योजना, नोनी सुरक्षा, मातृ वंदना योजना का गर्भवती महिलाओं को अधिक से अधिक लाभ प्रदान के निर्देश दिए। उन्होंने आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं मितानिन के माध्यम से एनीमिक महिलाओं एवं बच्चियों को चिन्हांकित कर आयरन फोलिक एसिड प्रदान करने के साथ गुड, चना, अंकुरित अनाज जैसे खाद्य पदार्थ को उनकी नियमित दिनचर्या में शामिल करने के लिए प्रोत्साहित करने के निर्देश दिए। जिससे बेहतर परिणाम प्राप्त हो सके। कलेक्टर साहू ने श्रम विभाग को निर्देशित किया कि ई-श्रम कार्ड इंश्योरेंस एवं विभागीय योजना के क्लेम संबंधी जानकारी के लिए ग्राम स्तर पर मुनादी करवाएं। जिससे जनसामान्य को क्लेम संबंधी जानकारी प्राप्त हो सके एवं उन्हें लाभ मिल सके। इस दौरान जिले में ओवर बिलिंग पर आ रही शिकायत पर विद्युत विभाग पर नाराजगी जताते हुए कैम्प के माध्यम से समस्या समाधान करने के निर्देश दिए। साथ ही उन्होंने कहा की प्रति माह मीटर रीडिंग करें, जिससे लोगों को हॉफ  बिजली बिल योजना का लाभ मिल सके। इसके अलावा कैंप में नाम सुधार, नए कनेक्शन, विद्युत पोल जैसे समस्या का भी त्वरित निराकरण किया जाए। उन्होंने अंत्याव्यसायी विभाग को विभागीय योजनाओं के माध्यम से छोटे कामगार को अधिक से अधिक लाभ पहुंचाने के निर्देश दिए। कलेक्टर  साहू ने जिला शिक्षा अधिकारी को ड्रॉप आउट स्कूली बच्चों का सर्वे करने के निर्देश दिए। साथ ही स्कूलों में जारी किए गए प्रमाण पत्रों की जानकारी ली। इसके साथ ही आदिम जाति कल्याण विभाग को पोस्ट मैट्रिक बच्चों का सर्वे के साथ ही जिले के छात्रावास में मरम्मत कार्यों को अतिशीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिए। इस दौरान उन्होंने कृषि विभाग को नलकूप प्रकरण केसीसी के लिए कैंप, वितरण के लिए कृषि यंत्र तथा उन्नत कृषि की जानकारी के लिए स्टॉल में कृषकों को आमंत्रित करने के निर्देश दिए। उन्होंने लोक स्वास्थ यांत्रिकी विभाग को नलकूप सुधार एवं नाला निर्माण पश्चात जल स्तर वृद्धि की अध्ययन कर जानकारी उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।राजीव पाण्डेय सहित समस्त जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे। संवेदनशील धान खरीदी केन्द्रों के बार्डर को करे एक्टिव आगामी 01 नवंबर से प्रारंभ होने वाले धान खरीदी को लेकर कलेक्टर  साहू ने चिन्हांकित संवेदनशील धान खरीदी केन्द्रों के चेक पोस्ट में जांच प्रारंभ करने के निर्देश दिए। उन्होंने सभी एसडीएम को धान खरीदी केन्द्रों के निरीक्षण करने एवं मूलभूत सुविधाओं को सुनिश्चित करते हुए कोचियों एवं बॉर्डर पर पैनी नजर रखने के निर्देश दिए। समस्याओं को छोटा ना समझे, करें त्वरित कार्यवाही टीएल बैठक के पश्चात लॉ एंड ऑर्डर की बैठक हुई, जिसमें कलेक्टर  साहू ने कहा की किसी भी घटना में आवश्यक होने पर तुरंत कार्यवाही करें, जिससे समस्या का शीघ्र समाधान हो सके। इस मौके पर पुलिस अधीक्षक अभिषेक मीणा ने पुलिस विभाग को निर्देशित किया कि किसी प्रकार की समस्याओं को छोटा ना समझे तुरंत एक्शन ले। उन्होंने कहा की रोड एक्सीडेंट, हाइवे जाम जैसी समस्या पर पुलिस एवं जिला प्रशासन आपसी समन्वय के साथ अतिशीघ्र कार्यवाही करते हुए निराकरण करें। इसके साथ ही किसी भी प्रकार के रैली, आंदोलन के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश के साथ परमिशन प्रदान करें, जिससे लॉ एंड ऑर्डर प्रभावित न हो।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 October 2022

कलेक्टर पी.एस.एल्मा ने दी सफल, सेहतमंद भविष्य की शुभकामनाएं

ज़िले में सितम्बर माह में सेवानिवृत हुए पांच अधिकारी-कर्मचारियों का आज समय सीमा की बैठक में कलेक्टर  पी.एस.एल्मा द्वारा शॉल, श्रीफल और पौध देकर सम्मानित किया गया। वहीं सभी सेवानिवृत अधिकारी-कर्मचारियों को संबोधित करते हुए सफल, सुखद और स्वस्थ्य जीवन जीने अपनी शुभकामनाएं कलेक्टर ने दी। सितम्बर माह में अर्द्धवार्षिकी आयु पूर्ण कर सेवानिवृत्त होने वालों में उप पंजीयक, जिला सहकारी संस्था  पीताम्बर सिंह ठाकुर, लेखाधिकारी, जिला पंचायत श्री हेमलाल साहू, प्रधानपाठक शासकीय माध्यमिक शाला कृष्णाराम साहू, शासकीय प्राथमिक शाला दर्री , दुर्गा प्रसाद यादव और सहायक ग्रेड 03, राजस्व विभाग  लिली यादव शामिल हैं। इस मौके पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्रीमती प्रियंका महोबिया, वन मण्डलाधिकारी श्री मयंक पाण्डेय, अपर कलेक्टर  चन्द्रकांत कौशिक सहित जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 October 2022

राज्यपाल अनुसुईया उइके ओ.पी.जिंदल यूनिवर्सिटी के द्वितीय दीक्षांत समारोह में होंगी शामिल

  ओ.पी.जिंदल यूनिवर्सिटी के द्वितीय दीक्षांत समारोह में शामिल होंगी   राज्यपाल अनुसुईया उइके 10 अक्टूबर को एक दिवसीय रायगढ़ प्रवास पर आयेंगी। यहां वे ओ.पी.जिंदल यूनिवर्सिटी के द्वितीय दीक्षांत समारोह में शामिल होंगी। निर्धारित दौरा कार्यक्रम के तहत राज्यपाल  उइके 10 अक्टूबर को पूर्वान्ह 11.30 बजे पुलिस परेड ग्राउण्ड हेलीपेड रायपुर से हेलीकाप्टर से प्रस्थान कर दोपहर 12.20 बजे जिंदल एयर स्ट्रीप रायगढ़ पहुंचेंगी और जिंदल गेस्ट हाउस प्रस्थान करेंगी। राज्यपाल उइके दोपहर 2.25 बजे ओपी जिंदल स्कूल रायगढ़ आयेंगी एवं दोपहर 2.30 बजे से ओ.पी.जिंदल यूनिवर्सिटी रायगढ़ के द्वितीय दीक्षांत समारोह में शामिल होंगी। तत्पश्चात अपरान्ह 3.55 बजे जिंदल एयर स्ट्रीप रायगढ़ से रायपुर के लिए प्रस्थान करेंगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 October 2022

सड़क निर्माण कार्य में लापरवाही, तीन ठेकेदारों सहित ईई पीडब्ल्यूडी को कारण बताओ नोटिस

  कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने जारी किया नोटिस कलेक्टर रानू साहू ने रायगढ़-धरमजयगढ़ मार्ग के चौड़ीकरण एवं नवीनीकरण कार्य तथा पूंजीपथरा-गेरवानी के मध्य जर्जर सड़क के मरम्मत कार्य में लापरवाही बरतने के कारण तीन ठेकेदारों सहित लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन अभियंता को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। जारी नोटिस के अनुसार कुर्रूभांठा-रक्सापाली-कछार-उसरौठ-तारापुर-पुटकापुरी-सुपा से राष्ट्रीय राजमार्ग-216 मार्ग निर्माण कार्य समय-सीमा पूर्ण होने के एक वर्ष पश्चात भी नहीं पूर्ण करने पर मेसर्स बारबरिक प्रोजेक्ट लिमिटेड सूरजपुर एवं धरमजयगढ़-कापू मार्ग समय-सीमा पूर्ण होने पश्चात भी नहीं पूर्ण करने पर मेसर्स सुनील कुमार अग्रवाल, रायगढ़ तथा रायगढ़-धरमजयगढ़ मार्ग के चौड़ीकरण एवं नवीनीकरण कार्य एवं पूंजीपथरा-गेरवारी के मध्य जर्जर सड़क के मरम्मत कार्य में लापरवाही बरतने पर मेसर्स बी.बी.वर्मा कंस्ट्रक्शन कोरबा को कारण बताओ नोटिस जारी कर जवाब मांगा गया है। ईई पीडब्ल्यूडी को सड़क निर्माण कार्यों की स्वीकृति व कार्यादेश जारी होने के बाद भी कार्य में प्रगति नही आने व अपेक्षित मरम्मत कार्य नहीं कराए जाने को लेकर नोटिस जारी किया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 October 2022

अज्ञात बीमारी से 40 बच्चो की मौत

बीमारी का पता लगाने पहुंची टीम मीडिया में यह मामला लगातार उछलने के बाद छत्तीसगढ़ सरकार ने इस बीमारी का पता लगाने के लिए स्वास्थ्य विभाग को निर्देशित किया है. वहीं विभाग की ओर से 16 सदस्यीय टीम बनाकर इन गांवों में सर्वे के लिए भेजा गया है. छत्तीसगढ़ के बीजापुर और नारायणपुर के सीमा से लगते करीब दर्जन भर गांवों में अज्ञात बीमारी का खौफ है. लोग इस कदर दहशत में हैं कि यहां पलायन की स्थिति बन गई है. बीते पांच महीने में ही इस बीमारी की वजह से अब तक 40 ग्रामीणों की मौत हो चुकी है. यह समस्या किसी एक गांव में नहीं, वरन 10 से 12 गांवों में देखी जा रही है. मीडिया में यह मामला लगातार उछलने के बाद छत्तीसगढ़ सरकार ने इस बीमारी का पता लगाने के लिए स्वास्थ्य विभाग को निर्देशित किया है. वहीं विभाग की ओर से 16 सदस्यीय टीम बनाकर इन गांवों में सर्वे के लिए भेजा गया है. इस टीम में तीन डॉक्टरों के अलावा अन्य स्टॉफ शामिल है. डॉक्टरों में दो MBBS हैं, जबकि तीसरे डॉक्टर एमडी मेडिसिन हैं. जानकारी के मुताबिक यह अज्ञात बीमारी इंद्रावती नदी के किनारे पर बसे गांवों में पायी गई है. अभी तक डॉक्टरों को ना तो इस बीमारी की प्रकृति के बारे में जानकारी मिली है और ना ही उन्हें कोई इलाज समझ में आया है. लेकिन अब राज्य स्तर पर गठित इस टीम को नदी पार इन गांवों में सर्वे के लिए भेजा गया है. यह टीम यहां लोगों का इलाज करने के साथ ही इस बीमारी को भी समझने और इसका कोई स्थाई समाधान ढूंढने का प्रयास करेगी. इसके लिए सर्वे टीम के साथ पैथालॉजी सुविधा उपलब्ध कराई गई है. वहीं मौके पर ही मरीजों के इलाज के लिए आवश्यक दवाइयों व सर्जिकल उपकरण की खेप भी भेजी गई है.  डॉक्टरों के मुताबिक फिलहाल तो मरीजों में लक्षण देखकर दवाई वितरित की जा रही है, लेकिन जैसे ही कुछ सैंपलों की जांच रिपोर्ट आएगी, बीमारी की मूल प्रकृति पता चल जाएगी. इसके बाद इसका स्थाई इलाज किया जा सकेगा. उन्होंने बताया कि अब तक दो दर्जन से अधिक मरीजों के सैंपल जांच के लिए भेज दिए गए हैं. बाकी मरीजों और संभावित मामलों में भी सैंपल लिया जा रहा है. डॉक्टरों के साथ पैथालॉजिस्ट की टीम लगातार इस दिशा में काम कर रही है. बीजापुर के मुख्य स्वास्थ अधिकारी सुनील भारती ने बताया कि अभी तक इस बीमारी की प्रकृति के बारे में जानकारी नहीं मिली है. इसलिए सर्वे टीम को गांव में सर्वे करने के साथ ही शिविर लगाने के निर्देश दिए गए हैं. इस बीमारी से मृत लोगों के घर वालों के साथ बात करने के अलावा यह टीम नए मरीजों के लक्षणों का अध्ययन करेगी. बताया जा रहा है कि इस समय भी लगभग 8 गांवों में 70 से ज्यादा बीमार हैं. यह टीम इन सभी के घर जा रही है.

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 September 2022

धरमजयगढ़ में 569 करोड़ रुपये के विभिन्न विकास कार्यों  लोकार्पण एवं शिलान्यास

  सीएम भूपेश बघेल ने किया लोकार्पण    मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भेंट-मुलाकात कार्यक्रम के दूसरे चरण में रायगढ़ जिले के धरमजयगढ़ विधानसभा में 569 करोड़ 78 लाख रुपये की लागत के 24 विभिन्न विकास कार्यों की सौगात दी। जिसमें 64 करोड़ 36 लाख रुपये की लागत से निर्मित 15 कार्यो का लोकार्पण एवं 505 करोड़ 42 लाख रुपये की लागत से बनने वाले 9 कार्यों का शिलान्यास कार्य शामिल हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कार्यक्रम के दौरान जिन कार्यों का लोकार्पण किया उनमें लोक निर्माण विभाग द्वारा 24 करोड़ 74 लाख रुपये की लागत से घरघोड़ा-बायपास मार्ग का उन्नयन कार्य, शिक्षा विभाग द्वारा 74 लाख रुपये की लागत से घरघोड़ा के ग्राम-भालूमार में नवीन हाईस्कूल भवन निर्माण एवं 75 लाख रुपये की लागत से धरमजयगढ़ अंतर्गत ग्राम-ससकोबा में शाासकीय हाईस्कूल भवन का निर्माण, आदिवासी विकास विभाग द्वारा 14 करोड़ 57 लाख रुपये की लागत से धरमजयगढ़ में 500 सीटर आदिवासी छात्रावास भवन का निर्माण, 3 करोड़ 84 लाख रुपये की लागत से घरघोड़ा एवं महाराजगंज में 50-50 सीटर पोस्ट मैट्रिक छात्रावास भवन निर्माण, लोक निर्माण विभाग सेतु द्वारा 8 करोड़ 2 लाख रुपये की लागत से धरमजयगढ़ से कोरबा, उरगा, हाटी एवं धरमजयगढ़ मार्ग में सरिया नाला सेतु निर्माण कार्य एवं 9 करोड़ 99 लाख रुपये की लागत से कुड़ेकेला के बंगरसुता मार्ग पर मांड नदी पर पुल निर्माण, वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग द्वारा 25 लाख रुपये की लागत से धरमजयगढ़ अंतर्गत ग्राम पण्ड्रीमौहा एवं उदउदा में मानव राहत केन्द्र सह अन्नागार, वन विभाग द्वारा 80 लाख रुपये की लागत तीन जगहों पर डब्ल्यूबीएम वनमार्ग, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग द्वारा 40 लाख रुपये की लागत से मेडिया खूंटा नाला में वेंटेज, कॉजवे निर्माण भाग-1 व 2 तथा नगर पंचायत घरघोड़ा द्वारा 27 लाख रुपये की लागत से पौनी पसारी बाजार निर्माण कार्य शामिल है।शिलान्यास कार्य के तहत न्याय विभाग द्वारा 76 लाख रुपये की लागत से सिविल कोर्ट घरघोड़ा में न्यायिक अधिकारियों के लिए 1 नग डी टाईप शासकीय आवास गृह निर्माण, आदिवासी विकास विभाग द्वारा 01 करोड़ 53 लाख रुपये की लागत से घरघोड़ा के ग्राम बिच्छीनारा में 50 सीटर पोस्ट मैट्रिक आदिवासी कन्या छात्रावास, लोक निर्माण विभाग सेतु द्वारा 5 करोड़ 50 लाख रुपये की लागत से रायगढ़ के पानीखेत से ऐडुकला मार्ग पर पुल निर्माण एवं 7 करोड़ 98 लाख रुपये की लागत से ग्राम समनिया व पत्थलगांव खुर्द के मध्य सांगुल नदी में पुल निर्माण, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा 329 करोड़ 74 लाख रुपये की लागत से धरमजयगढ़ एवं घरघोड़ा में 92 रेट्रोफिटिंग योजना, 110 सिंगल विलेज एवं 71 सोलर योजना कार्य, नगर पंचायत घरघोड़ा द्वारा 2 करोड़ 97 लाख रुपये की लागत से सीसी रोड व नाली निर्माण तथा 94 लाख रुपये की लागत से घरघोड़ा अंतर्गत वार्ड क्रमांक 10 छोटेमुड़ा तालाब का सौंदर्यीकरण कार्य तथा विद्युत विभाग द्वारा 156 करोड़ रुपये की लागत से धरमजयगढ़ के हाटी में 220/132 के.व्ही.उपकेन्द्र निर्माण कार्य शामिल है। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  15 September 2022

रायगढ़ में 467 करोड़ की लागत से 260 किलोमीटर सड़कों का होगा निर्माण

छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने किया वादा    रायगढ़ में 467 करोड़ की लागत से 260 किलोमीटर सड़कों का होगा निर्माणरायगढ़ में 467 करोड़ की लागत से 260 किलोमीटर सड़कों का होगा निर्माण मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि रायगढ़ जिले में खराब सड़कों को बनाने का काम बारिश खत्म होते ही किया जाएगा । उन्होंने धरमजयगढ़ विधानसभा के ग्राम छाल में ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कहा कि मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि रायगढ़ जिले की खराब सड़कों को जल्द ही बनाया जाएगा । उन्होंने कहा कि पीडब्ल्यूडी सचिव श्री सिद्दार्थ कोमल परदेशी ने सभी खराब सड़कों का जायजा ले लिया है और वे स्वयं भी। उन्होंने कहा कि पीडब्ल्यूडी सचिव  सिद्दार्थ कोमल परदेशी ने सभी खराब सड़कों का जायजा ले लिया है और वे स्वयं भी उन्होंने कहा कि पीडब्ल्यूडी सचिव  सिद्दार्थ कोमल परदेशी ने सभी खराब सड़कों का जायजा ले लिया है और वे स्वयं भीउन्होंने कहा कि पीडब्ल्यूडी सचिव श्री सिद्दार्थ कोमल परदेशी ने सभी खराब सड़कों का जायजा ले लिया है और वे स्वयं भी लगातार मॉनिटरिंग कर रहे हैं । उल्लेखनीय है कि रायगढ़ जिले में भारी वाहनों का बहुत अधिक दवाब है, इसलिए सड़कों की स्थिति बारिश के बाद ठीक की जाएगी । लोकनिर्माण विभाग के सचिव सिद्दार्थ कोमल परदेशी ने जानकारी दी कि रायगढ़ से धरमजयगढ़ 130 करोड़ की लागत से 70 किलोमीटर , खरसिया-छाल-हाटी-धरमजयगढ़-पत्थलगांव तक 190 करोड़ की लागत से 90 किलोमीटर सड़क ,छाल से घरघोड़ा तक 48 करोड़ की लागत से 23 किलोमीटर सड़क , पूंजीपथरा-तमनार -मिलूपारा तक 62 करोड़ की लागत से 26 किलोमीटर सड़क ,सारंगढ़-बरमकेला-सोहेला मार्ग साढ़े 8 करोड़ की लागत से 8 किलोमीटर, बरमकेला-सरिया-नदीगांव सड़क साढ़े सात करोड़ की लागत से 18 किलोमीटर , घरघोड़ा से लैलूंगा तक 7 करोड़ की लागत से 15 किलोमीटर और सूरजगढ़ से पड़िगांव तक 6 करोड़ की लागत से 3 किलोमीटर तक सड़क निर्माण किया जाएगा ।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 September 2022

खरसिया ने  205 करोड़ रुपये के विकास कार्यों का किया लोकार्पण एवं शिलान्यास

  मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने आज भेंट-मुलाकात कार्यक्रम के दूसरे चरण में रायगढ़ पहुंचे    मुख्यमंत्री ने खरसिया को दी बड़ी सौगात।मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने आज भेंट-मुलाकात कार्यक्रम के दूसरे चरण में रायगढ़ जिले के खरसिया विधानसभा में 205 करोड़ 14 लाख रुपये की लागत के 13 विभिन्न विकास के कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास किया। जिसमें 19 करोड़ 19 लाख रुपये की लागत से निर्मित 8 कार्यो का लोकार्पण एवं 185 करोड़ 95 लाख रुपये की लागत से बनने वाले 5 कार्यों का शिलान्यास कार्य शामिल हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल कार्यक्रम के दौरान जिन कार्यों का लोकार्पण किया। इनमें छत्तीसगढ़ ग्रामीण सड़क विकास अभिकरण द्वारा 11 करोड़ 33 लाख रुपये की लागत से दो सड़क निर्माण कार्य, लोक निर्माण विभाग द्वारा 5 करोड़ 88 लाख रुपये की लागत से तुरेकेला-हालाहुली मार्ग का मजबूतीकरण कार्य, शिक्षा विभाग द्वारा 75 लाख रुपये की लागत से बरभौना में हाईस्कूल भवन निर्माण, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा 91 लाख रुपये की लागत से हमर लैब एवं ब्लड बैंक, आयुर्वेद विभाग द्वारा 16 लाख रुपये की लागत से शासकीय आयुर्वेद औषधालय हेतु मुरा में नवीन भवन निर्माण तथा 16 लाख रुपये की लागत से शासकीय होम्योपैथी औषधालय हेतु हालाहुली में नवीन भवन निर्माण कार्य शामिल है।शिलान्यास कार्य के तहत लोक निर्माण विभाग द्वारा 75 लाख रुपये की लागत से खरसिया के छोटे मुड़पार में हाईस्कूल भवन निर्माण कार्य, लोक निर्माण विभाग सेतु द्वारा 64 करोड़ 95 लाख रुपये की लागत से रेलवे ओव्हर ब्रिज एवं रेलवे अंडर ब्रिज का निर्माण, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा 120 करोड़ 25 लाख रुपये की लागत से खरसिया, रायगढ़ एवं पुसौर में 36 रेट्रोफिटिंग योजना, 129 सिंगल विलेज योजना एवं 01 सोलर योजना के कार्य शामिल है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 September 2022

डॉ खूबचंद बघेल स्वास्थ्य योजना ने दिया नया जीवन

  दिल की बीमारी से मासूमों का जीना था मुश्किल मुख्यमंत्री ने बच्चियों संग खिंचवाई फोटो, गिफ्ट देकर उन्हें किया सम्मानितरायगढ़ के सोनबरसा की रहने वाली कोमल चौहान दूसरी कक्षा में पढ़ती है। बार बार बीमार रहने से कोमल के घरवाले परेशान रहते थे। इसी तरह से चपले गांव की रहने वाली पायल पटेल भी बीमारी की वजह से हंसना मुस्कुराना भूल गई थी। इन दोनों मासूमें के परिजनों को समझ नहीं आ रहा था कि वो क्या करें। दरअसल पायल और कोमल को दिल की बीमारी थी जिसे डॉक्टर समझ नहीं पा रहे थे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की पहल पर विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम स्कूलों में जाकर बच्चों की स्वास्थ्य जांच करती है, इसी जांच में ये पता चला कि दोनों बच्चियों के दिल में छेद है जिससे उनका विकास नहीं हो पा रहा है और वो बीमार  रहती हैं। इसके बाद कोमल और पायल को डॉ खूबचंद बघेल स्वास्थ्य योजना के तहत रायपुर के बड़े अस्पताल में भर्ती कराया गया और दोनें का नि:शुल्क इलाज कराया गया. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के द्वारा शुरू की गई डॉ खूबचंद बघेल स्वास्थ्य योजना की वजह से ही आज कोमल और पायल जैसी बच्चों की जान बच रही है और वो अपना नया जीवन शुरू कर पा रहे हैं। आज जब बच्चों के परिजनों को पता चला कि मुख्यमंत्री खरसिया के चपले गांव में आ रहे हैं तो दोनों बच्चियां भी परिजनों के साथ मुख्यमंत्री से मिलने पहुंचीं। मुख्यमंत्री ने न सिर्फ इन बच्चियों के साथ फोटो खिंचवाई बल्कि इन्हें गिफ्ट देकर सम्मानित भी किया। -अब चहक रही है कोमल और मुस्कुरा रही है पायल -मुख्यमंत्री ने बच्चियों संग खिंचवाई फोटो, गिफ्ट देकर उन्हें किया सम्मानित

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 September 2022

सीएम भूपेश बघेल भेंट-मुलाकात के लिए लैलूंगा विधानसभा के कुंजेमुरा गांव पहुंचे

  बघेल ने ग्रामीणों को कई विकास और निर्माण कार्यों की दी सौगात   मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज अपने भेंट-मुलाकात कार्यक्रम के दौरान रायगढ़ जिले के लैलूंगा विधानसभा क्षेत्र के कुंजेमुरा गांव पहुंचे। मुख्यमंत्री से मिलने ग्रामीणों में जबर्दस्त उत्साह दिखाई दिया। मुख्यमंत्री ने तमनार विकासखंड स्थित कंुजेमुरा के हनुमान मंदिर पहुंचकर पूजा-अर्चना की और प्रदेशवासियों के सुख-समृद्धि और खुशहाली की कामना की। मुख्यमंत्री बघेल ने कुंजेमुरा के गलियों मे पैदल चलकर ग्रामीणों से  मुलाकात की और उनका हालचाल जाना। ग्रामीणों ने भी मुख्यमंत्री का द्वार पर रंगोली सजाकर, दीप जलाकर और आरती कर स्वागत किया। इस अवसर पर स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम सहित कई जनप्रतिनिधि और अधिकारी मौजूद थे।   नामकरण स्वर्गीय. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कुंजेमुरा गांव में ग्रामीणों को कई विकास और निर्माण कार्यों की सौगात दी। बघेल ने कुंजेमुरा गांव में घोषणा की है कि ग्राम कुंजेमुरा में शा.उ.मा. विद्यालय में स्वामी आत्मानंद हिन्दी माध्यम स्कूल खोलने की घोषणा। ग्राम तमनार में नवीन ग्रामीण जिला सहकारी केंद्रीय बैंक की शाखा खोलेंगे। ग्राम तमनार में उप कोषालय खोला जायेगा। शासकीय कला विज्ञान एवं वाणिज्य महाविद्यालय तमनार में पोस्ट ग्रेजुएट यानी पी.जी. कक्षाएं शुरू होंगी। ग्राम सराईपाली में उप तहसील कार्यालय खोला जायेगा। ग्राम धौराभाठा में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र हेतु नवीन भवन का निर्माण करवाया जायेगा। ग्राम गोढ़ी में समूह नल जल योजना की सुविधाओं का विस्तार किया जायेगा। शासकीय कन्या प्राथमिक शाला लैलूंगा का नामकरण सेठ जयदयाल सिंघानिया के नाम पर किया जायेगा। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र तमनार का नामकरण स्वर्गीय. जयलाल चौधरी के नाम पर करने की घोषणा।    जयलाल चौधरी के नाम पर करने की घोषणा मुख्यमंत्री बघेल ने ग्रामीण क्षेत्रों में आवागमन की सुविधा बढ़़ाने कई सड़कों के निर्माण कार्य की घोषणा की। उन्होंने कहा कि ग्राम तमनार से उरबा होते हुए लैलूंगा तक 28 किमी सड़क का निर्माण होगा। ग्राम हमीरपुर से बरकछार से बंजारी अड़बहाल तक कुल 19 किमी नई सडक का निर्माण करवाया जायेगा। रेंगारबहरी से घरघोड़ा सीमा तक 1.5 किलोमीटर और पेलमा के मड़ियाकछार तक 6 किलोमीटर सड़क निर्माण किया जाएगा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भेंट-मुलाकात के दौरान ग्रामीणों ने बातचीत कर उनकी समस्याएं जानी और योजनाओं के क्रियान्वयन और लाभ के बारे में जानकारी ली। मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान की जानकारी पूछे जाने पर बिलासिनी महंत ने बताया कि वे एनीमिया से पीड़ित थीं, अब बिल्कुल ठीक है। योजना के तहत उन्हें गर्म भोजन मिलता था और समय पर जांच भी होती है। धौंराभाटा से आए ग्रामीण ने बताया कि उन्हें बीपी और शुगर की बीमारी है और हाट बाजार क्लिनिक में उन्हें निःशुल्क जांच और दवाई की सुविधा मिल रही है।मुख्यमंत्री बघेल ने ग्रामीणों की समस्या पर कहा कि रायगढ़ जिले में सड़क खराब है मुझे इसकी जानकारी है। अधिकारियों के साथ मेरी बैठक हुई है। बरसात के बाद बहुत जल्द निर्माण कार्य शुरू किए जाएंगे। ग्रामीण लक्ष्मीन धोबा ने मुख्यमंत्री बघेल को बताया कि उनका जाति प्रमाण नहीं बन पा रहा है, मुख्यमंत्री ने कहा तहसीलदार को आवेदन दें उनका प्रमाण पत्र बन जायेगा। मुख्यमंत्री ने उन्हें बताया कि राज्य सूची में जाति का उल्लेख नहीं होने पर आपको लाभ नहीं मिल पा रहा है। जय माँ गायत्री स्व सहायता समूह संकेरा की महिला ने बताया कि उन्हें आवश्यक समान रखने के लिए भवन निर्माण, गौठान के लिए घेरा और वर्मी खाद रखने के लिए स्थान और सड़क की आवश्यकता है। मुख्यमंत्री बघेल ने उनकी बात सुनकर कहा कि कलेक्टर साहब ने नोट किया है, बनवा देंगे। -ग्रामीणों की समस्याएं सुनी और किया निराकरण -तमनार में नवीन ग्रामीण जिला सहकारी केंद्रीय बैंक की शाखा और उप कोषालय खुलेगा -शासकीय कला विज्ञान एवं वाणिज्य महाविद्यालय तमनार में पोस्ट ग्रेजुएट कक्षाएं शुरू होंगी -ग्राम सराईपाली में उप तहसील कार्यालय खोला जायेगा -प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र धौराभाठा के नवीन भवन का होगा निर्माण -कुंजेमुरा में खुलेगा स्वामी आत्मानंद हिन्दी माध्यम स्कूल -शासकीय कन्या प्राथमिक शाला लैलूंगा का नामकरण सेठ जयदयाल सिंघानिया और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र तमनार का नामकरण स्वर्गीय. जयलाल चौधरी के नाम पर करने की घोषणा

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 September 2022

देवारी तिहार मिलेगी राजीव गांधी किसान न्याय योजना की तीसरी किस्त

  चपले के भेंट-मुलाकात कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने की घोषणा     मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने आज रायगढ़ जिले के खरसिया विधानसभा के ग्राम चपले में भेंट मुलाकात कार्यक्रम में आम जनता से रू-ब-रू होकर राज्य शासन की योजनाओं के क्रियान्वयन की स्थिति की जानकारी ली। उन्होंने इस अवसर पर अपने सम्बोधन में देवारी तिहार पर किसानों को राजीव गांधी किसान न्याय योजना की तीसरी किस्त देने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने जमीन की गुणवत्ता और उर्वरता को बनाए रखने के लिए किसानों से वर्मी कम्पोस्ट का उपयोग करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि राज्य के गौठानों में वर्मी कम्पोस्ट बन रहा है। इसका ज्यादा से ज्यादा उपयोग किया जाना चाहिए। इसके पहले मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ महतारी की पूजा अर्चना कर भेंट-मुलाकात कार्यक्रम की शुरूआत की।    जनता से ली राज्य  मुख्यमंत्री ने की अनेक बड़ी घोषणाएं चपले के भेंट मुलाकात कार्यक्रम में मुख्यमंत्री  बघेल ने क्षेत्र के विकास के लिए अनेक बड़ी घोषणाएं की। उन्होंने चपले में स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल प्रारंभ करने, काली माता मेला के प्रतिवर्ष आयोजन हेतु 10 लाख रूपए की स्वीकृति, पुलिस सहायता केंद्र चपले का पुलिस चौकी में उन्नयन, कोतरा में पुलिस सहायता केंद्र की स्थापना, चपले में नवीन सामुदायिक भवन एवं पीडीएस भवन का निर्माण, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र खरसिया में  सोनोग्राफी एवं सीटी स्कैन जांच की सुविधा, खरसिया में बालक बालिक ओबीसी छात्रावास का निर्माण, नहरपाली समपार में रेलवे ओवरब्रिज निर्माण की स्वीकृति सहित ग्राम चपले में चार स्थानों में सीसी रोड निर्माण की स्वीकृति की घोषणा की।   मुख्यमंत्री के चपले हेलीपैड पर पहंुचने पर जनप्रतिनिधियों और ग्रामीणों ने गुलदस्ता भेंट कर उनका आत्मीय स्वागत किया। हरदिया मरार पटेल समाज ने मुख्यमंत्री को सब्जियों से तौल कर जनकल्याकारी योजनाओं के लिए मुख्यमंत्री का आभार जताया। भेंट मुलाकात स्थल में स्थानीय महिलाओं ने छिंद पत्ते से बने मुकुट को पहनाकर मुख्यमंत्री का स्वागत किया। सर्व आदिवासी समाज ने मुख्यमंत्री को बांस से बने मुकुट पहनाकर और मांदर भेंट कर सम्मानित किया। इस अवसर पर स्कूल शिक्षा मंत्री और रायगढ़ जिले के प्रभारी मंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह टेकाम और उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल भी मौजूद थे।   शहीद नंद कुमार पटेल को किया याद मुख्यमंत्री ने भेंट-मुलाकात कार्यक्रम की शुरूआत करते हुए कहा कि खरसिया विधानसभा को हम शहीद नंद कुमार पटेल के नाम से जानते हैं। वो हमेशा गरीब और किसान के लिए आवाज उठाते थे। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ के किसानों ने किसान के बेटे पर विश्वास किया है। हमने किसानों की कर्ज माफी, राजीव गांधी किसान न्याय योजना, राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर योजना, गोधन न्याय योजना सहित सभी वर्गो के लिए अनेक योजनाएं प्रारंभ की।   योजना, गोधन न्याय  हर गौठान में खाद की फैक्टरी भेंट-मुलाकात कार्यक्रम में मुख्यमंत्री से दादूराम चंद्रा ने कहा कि हम खेत में रासायनिक खाद डालकर परेशान हो गए हैं, एक खेत में वर्मी कंपोस्ट डाला तो फसल बहुत अच्छी हुई, टमाटर की फसल बहुत अच्छी हुई और मुझे लाभ मिला। मैने डेढ़ लाख रूपए की सेकेंड हैंड कार खरीदी है। इस पर मुख्यमंत्री ने किसानों से खेतों में वर्मी कंपोस्ट का उपयोग करने के लिए आग्रह करते हुए कहा कि खरसिया, पुसौर में बहुत उपजाऊ जमीन है लेकिन रासायनिक खाद से उर्वरता समाप्त हो रही है। वर्मी कंपोस्ट के इस्तेमाल से जमीन की उर्वर क्षमता बढ़ रही है, इससे किसानों को ज्यादा उत्पादन मिल रहा है। रासायनिक खाद से जमीनें कड़ी हो रही हैं, जोतने के लिए ट्रेक्टर की क्षमता बढ़ानी पड़ रही है। रासायनिक खाद की कीमत भी बढ़ रही है, 8000 गौठानों में वर्मी कंपोस्ट बन रहा है, मतलब हर गौठान में खाद की फैक्टरी है, इसे हर गांव तक पहुंचाना है।   योजना सहित सभी वर्गो बच्चों ने स्टार्टअप के बारे में पूछे सवाल कक्षा 12वीं की शेफाली अहमद ने छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री से स्टार्टअप के बारे में पूछा, उन्होंने पूछा कि स्टार्टअप प्रारंभ करने वाले युवा उद्यमियों को बड़े उद्योगपतियों से सहयोग उपलब्ध कराकर उन्हें प्रोत्साहित करने के लिए ’शार्क टैंक’ की तर्ज पर क्या कोई कार्यक्रम चलाया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने इसके जवाब के लिए उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल को माइक दिया, उन्हांेने विस्तार से स्टार्टअप के बारे में बताया। मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ी में पूछा सवाल: वंशिका ने फर्राटेदार इंग्लिश में दिए जवाब वंशिका पाल, चौथी कक्षा ने इंग्लिश में मुख्यमंत्री से बात की, छत्तीसगढ़ी में सवाल पूछने पर वंशिका ने कहा कि - I don't understand chhattisgarhi-  मुख्यमंत्री ने हिंदी में सवाल पूछे और वंशिका ने जवाब दिया   दो नन्ही बच्चियों कोमल और पायल के परिजनों ने मुख्यमंत्री से मुलाकात कर उन्हें बताया कि हृदय रोग से पीड़ित इन बच्चियों का डॉ.खूबचंद बघेल स्वास्थ्य योजना से मिली मदद से इलाज हो चुका है और अब वे स्वस्थ हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री श्री बघेल के प्रति आभार प्रकट किया। खरसिया के जोबी गांव की लक्ष्मणी राठिया ने बताया कि उनका उजाला महिला स्व सहायता समूह गोधन न्याय योजना से जुड़ा है। इस समूह ने लगभग 600 क्ंिवटल वर्मी कम्पोस्ट बेचकर 2 लाख 15 हजार रूपए का लाभ अर्जित किया, जिससे बच्चों के लिए कम्प्यूटर खरीदा। ग्राम नंदेली पहंुचकर मुख्यमंत्री ने शहीद  नंद कुमार पटेल को दी श्रद्धांजलि भेंट-मुलाकात के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल रायगढ़ जिले के ग्राम नंदेली पहंुचे। वहां उन्होंने शहीद  नंद कुमार पटेल एवं शहीद  दिनेश पटेल की समाधि स्थल शांति बगिया पहंुचकर उन्हें पुष्पचक्र अर्पित कर भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की।  नंदकुमार पटेल और उनके युवा पुत्र दिनेश पटेल वर्ष 2013 में बस्तर के झीरमघाटी नक्सल हमले में शहीद हुए थे। नंदेली  पटेल का गृह ग्राम है। मुख्यमंत्री ने शहीद नंद कुमार के निवास पहंुचकर उनके परिजनों से मुलाकात भी की।     -अच्छी फसल के लिए किसानों से वर्मी कम्पोस्ट का उपयोग करने की अपील -मुख्यमंत्री ने आम जनता से ली राज्य शासन की योजनाओं की जानकारी -घोषणा अच्छी फसल के लिए किसानों से वर्मी कम्पोस्ट का उपयोग

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 September 2022

मुख्यमंत्री बघेल ने जगन्नाथ मंदिर में पूजा-अर्चना की

  सीएम भूपेश बघेल ने प्रदेशवासियों की सुख-समृद्धि की कामना की    महापुराण ज्ञान यज्ञ सप्ताह में भी शामिल हुए। व्यासपीठ पर बैठे कथावाचक पंडित तारेंन्द्र कृष्ण जी महाराज ने  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज अपने भेंट मुलाकात अभियान के दौरान रायगढ़ जिले के लैलूंगा विधानसभा के ग्राम राजपुर पहुंचे। उन्होंने यहां स्थित श्री जगन्नाथ मंदिर में भगवान जगन्नाथ, बलभद्र एवं माता सुभद्रा की विधिवत पूजा अर्चना कर प्रदेशवासियों की सुख-समृद्धि एवं खुशहाली की कामना की। मुख्यमंत्री श्री बघेल मंदिर प्रांगण में आयोजित श्रीमद भागवत महापुराण ज्ञान यज्ञ सप्ताह में भी शामिल हुए। व्यासपीठ पर बैठे कथावाचक पंडित तारेंन्द्र कृष्ण जी महाराज ने मुख्यमंत्री  बघेल का शाल श्रीफल से सम्मान किया। इस अवसर पर स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, विधायक चक्रधर सिंह सिदार भी उपस्थित रहे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 September 2022

भेंट-मुलाक़ात के लिए रायगढ़ जिले के ग्राम लोईंग पहुँचे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

  महाप्रभु जगन्नाथ मंदिर में पूजा-अर्चना की ,प्रदेशवासियों की खुशहाली की प्रार्थना की      भेंट-मुलाक़ात के लिए रायगढ़ जिले के ग्राम लोईंग पहुँचे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने महाप्रभु जगन्नाथ मंदिर में पूजा-अर्चना  और मंदिर की परिक्रमा कर प्रदेशवासियों की खुशहाली की प्रार्थना की।  भेंट-मुलाक़ात के लिए रायगढ़ जिले के ग्राम लोईंग पहुँचे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने महाप्रभु जगन्नाथ मंदिर में पूजा-अर्चना  और मंदिर की परिक्रमा कर प्रदेशवासियों की खुशहाली की प्रार्थना की। ग्राम लोईंग में श्री श्री श्री महाप्रभु जगन्नाथ की प्रतिमा स्थापित है, इस मंदिर का निर्माण सन् 1805 मे ग्राम लोईंग के श्री परमानंद गौटिया द्वारा कराया गया था। मंदिर निर्माण मे अदभूत काष्ठकला की कारीगरी के साथ ही मंदिर के गर्भगृह का निर्माण मिट्टी से किया गया था। मंदिर निर्माण मे कही भी लोहे की किल का उपयोग नही किया गया था। सन 2012 में गौटिया परिवार और ग्रामवासियों के सहयोग से मंदिर का पुनर्निर्माण किया गया है। श्री परमानंद गौटिया द्वारा पुरोहित को 11 एकड़ और मंदिर ट्रस्ट के लिए 6 एकड़ जमीन दान किया गया है। आज भी भोपाल के म्यूजियम मे मंदिर में उपयोग किए गए नक्काशीदार-लकड़ियां रखी हुई है। भेंट-मुलाक़ात के लिए रायगढ़ जिले के ग्राम लोईंग पहुँचे मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने महाप्रभु जगन्नाथ मंदिर में पूजा-अर्चना  और मंदिर की परिक्रमा कर प्रदेशवासियों की खुशहाली की प्रार्थना की। रामचंडी देवी को मंडा, अरिसा, सुआली और जाऊ (खीर) का भोग लगाया गया और मुख्यमंत्री द्वारा प्रसाद ग्रहण किया गया। मुख्यमंत्री ने उपस्थित सभी लोगों को नवाखाई पर्व की बहुत-बहुत बधाई दी। महाप्रभु जगन्नाथ और रामचंडी देवी की पूजा अर्चना के बाद मुख्यमंत्री द्वारा  कुष्टु : गुरु समूह लोईंग कीर्तन मंडली की अध्यक्ष फूलमती और सहयोगी मांगमति को वाईफाई-ब्लूटूथ वाला माइक और बॉक्स उपहार स्वरूप दिया गया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल लोइंग में भेंट-मुलाकात स्थल पर पहुंचे। यहां उन्होंने छत्तीसगढ़ महतारी की पूजा-अर्चना कर भेंट-मुलाकात की शुरुआत की। सर्व समाज की ओर से बांस से निर्मित पारंपरिक टोपी पहनाकर मुख्यमंत्री का स्वागत किया गया।  मुख्यमंत्री बघेल लोइंग में भेंट-मुलाकात कर रहे हैं, वे ग्रामीणों से चर्चा कर योजनाओं का फीडबैक ले रहे हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 September 2022

 राष्ट्रपति के निर्वाचन के लिए मतदान

  सीएम भूपेश बघेल ने किया मतदान  देश  राष्ट्रपति के निर्वाचन के लिए आज सुबह विधानसभा में मतदान की प्रक्रिया शुरू हो गईं।मतदान के बाद मुख्‍यमंत्री ने विपक्ष के राष्ट्रपति उम्‍मीदवार यशवंत सिन्‍हा की जीत का दावा किया। राष्ट्रपति निर्वाचन के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने विधानसभा में स्थापित मतदान केंद्र में मतदान किया।  उन्‍होंने कहा, यह राष्ट्रपति चुनाव विचारधारा की लड़ाई है। राष्ट्रपति निर्वाचन के लिए छतीसगढ़ विधानसभा के मतदान केंद्र में जैसे ही वोट डालने का सिलसिला शुरू हुआ, सबसे पहले कुरुद के विधायक अजय चंद्राकर ने मतदान किया। मतदान के बाद भाजपा विधायक अजय चंद्राकर ने कहा कि हमने कांग्रेस के 27 आदिवासी विधायकों से द्रौपदी मुर्मू के पक्ष में वोट डालने की बात कही है। द्रौपदी मुर्मू आदिवासी समाज से आती हैं। आदिवासी विधायक अपनी अंतरात्मा की आवाज़ पर वोट डालें। इसके बाद सत्ता पक्ष की ओर से पहला मत कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम ने डाला। इसके बाद विधायक नारायण चंदेल और लोक निर्माण मंत्री ताम्रध्वज साहू ने राष्ट्रपति निर्वाचन के लिए मतदान किया। इस दौरान सत्ता पक्ष के विधायक मोहित केरकेट्टा और विपक्ष के विधायक डा कृष्ण मूर्ति बांधी भी मौजूद रहे। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 July 2022

जिंदल स्टील रेल के पहिये बनाएगा

पहली रेल पहिया उत्पादन कारखाना रायगढ़ में जिंदल स्टील रेल के पहिये बनाएगा। इसके लिए जिंदल ने हंगरी से समझौता किया है। प्रारंभिक दौर में उत्पादन क्षमता प्रतिवर्ष 25 हजार सेट होगी, यात्री डिब्बों और मालगाड़ियों के लिए पहियों का होगा निर्माण।  यह देश की पहली और निजी क्षेत्र की एकमात्र रेल निर्माता कंपनी होगी।  कंपनी यहां अपने स्टील प्लांट में देश की पहली रेल पहिया उत्पादन कारखाना लगाएगी। इस महत्वाकांक्षी योजना को अंजाम देने के लिए कंपनी ने जीआईएफएलओ-हंगरी के साथ एक समझौता किया है। जिंदल स्टील के अधिकारियों के मुताबिक जीआईएफएलओ-हंगरी और जिंदल स्टील के बीच यह तकनीकी समझौता नई दिल्ली में हंगरी दूतावास एवं फिक्की के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित “भारत-हंगरी बिजनेस फोरम” में हुआ। इसके अनुसार प्लांट की शुरुआती उत्पादन क्षमता 25 हजार सेट पहिया प्रतिवर्ष होगी। जिन्दल स्टील एंड पावर के प्रबंध निदेशक वीआर शर्मा ने कहा कि उनकी कंपनी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा शुरू किए गए आत्मनिर्भर भारत अभियान में बढ़कर सहयोग करने के लिए प्रतिबद्ध है। रेल पहिया संयंत्र से भारतीय रेल के आधुनिकीकरण को गति मिलेगी। विश्वस्तरीय गुणवत्ता वाले पहियों की उपलब्धता से हम भारत सरकार के दूरदर्शी “गतिशक्ति अभियान” को साकार करने में एक महत्वपूर्ण साझेदार साबित होंगे। जिन्दल स्टील एंड पावर 1080 एचएच एवं 1175 एचटी हेड हार्डेंड रेल ग्रेड की एकमात्र भारतीय निर्माता है। ये पटरियां 25 टन से अधिक भार वहन की क्षमता रखती हैं और तेज रफ्तार दौड़ने वाली गाड़ियों के लिए उपयुक्त हैं। जेएसपी 60ई1, जेडयू1-60 और 60ई1ए1 मानदंडों के अनुरूप आर260 और 880 ग्रेड की पटरियों का भी निर्माण करता है और आर350 एचटी ग्रेड पटरियों का निर्यातक है।    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 May 2022

raigarh, collision , truck andcar, one died

रायगढ़ । विवाह समारोह से वापसी के दौरान बुधवार सुबह एनएच 49 रानीसागर हेक्सा प्लांट के सामने ट्रक से कार की टक्कर हो गई, जिसमें कार सवार पांच लोग गंभीर रूप से घायल हो गए और एक की मौत हो गई। दुर्घटना में खरसिया नगरपालिका के बिजली विभाग में कार्यरत रेशम मेहर का सिविल अस्पताल में मौत हो गई। इनोवा कार का ट्रक में टक्कर मारने से कार में सवार दूल्हा-दूलहन समेत परिवार के 6 व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गए। जानकारी के अनुसार सभी ग्राम लेवई शादी समारोह से ग्राम जोबी जा रहे थे। सभी घायल जिला अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती हैं। सन्यासी मेहर परिवार पर अलसुबह हुए दुर्घटना ने झकझोर दिया, परिजनों को खरसिया विधायक प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल ने परिजनों को घटनाक्रम के लिए ढांढस बधाया। घायल हुए लोगों के जल्द स्वस्थ होने की कामना ईश्वर से करते हुए डाॅक्टर को बेहतर उपचार उपलब्ध कराने का निर्देश दिए।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 May 2022

raigarh, Mother deal,80 thousand rupees,daughter womb

रायगढ़ (छत्तीसगढ़)। लोगों के घरों पर काम कर मिलने वाले पैसे से घर का खर्च चलाने और अपनी तीन संतानों (दो पुत्र, एक बेटी) का पालन-पोषण कर रही महिला ने कोख में पल रही चौथी बेटी का दलाल के माध्यम से 80 हजार रुपये में सौदा कर लिया। जन्म होने पर खरीदार को अपने कलेजे का टुकड़ा सौंप दिया। पड़ोसी से विवाद होने पर 'इस बात' का खुलासा हुआ। कानाफूसी शुरू हो गई और बात चक्रधर पुलिस स्टेशन पहुंच गई। पुलिस ने महिला को तलब कर पूछताछ की। अब महिला को ममत्व उमड़ा है। उसने अपनी बच्ची को दिलाने की गुहार लगाई है। यह महिला आईटीआई कॉलोनी में रहती है। महिला के मुताबिक जब यह बच्ची उसके गर्भ में पल रही थी तभी उसकी मुलाकात जबलपुर की रहने वाली मीता से हुई। मीता को इस महिला की आर्थिक स्थिति की जानकारी हुई तो उसने हमदर्दी जताई। मीता ने कहा जबलपुर में उसके जान-पहचान वाले हैं। वह उसकी बेटी का ठीक-ठाक पालन कर सकते हैं। उसे इसके बदले 80 हजार रुपये मिलेंगे। महिला ने बेटी को जन्म दिया। मीता वादे के मुताबिक उसे 80 हजार रुपये थमाकर उसकी नवजात बेटी को लेकर चली गई। कुछ दिन पहले महिला का पड़ोसी से किसी से बात को लेकर विवाद हुआ। इस दौरान पड़ोसी ने बच्ची को बेचने का खुलासा कर दिया। इसके बाद तो कॉलोनी में कोहराम मच गया। कॉलोनी के कुछ लोगों ने गुरुवार शाम चक्रधर नगर थाने को सूचना दी। पुलिस फौरन हरकत में आ गई। उसने महिला को थाने तलब किया। देरशाम महिला अपने परिवार के साथ थाने पहुंची। उसने अपनी बेबसी की कहानी बताई। पुलिस ने उसे शुक्रवार को फिर उसे थाने बुलाया। चक्रधर नगर थाने में पत्रकारों से बातचीत में महिला ने कुबूल किया कि तीन संतानों की परवरिश से परेशान होने के कारण उसने गर्भ में पल रही चौथी बेटी का सौदा किया। उसने अपनी मर्जी से बेटी को 80 हजार रुपये में मीता को बेचा। मगर अब वह उसे वापस चाहती है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 April 2022

raigarh,  Big collision ,between mini truck , auto

रायगढ़। इंदिरा नगर एसबीआई एटीएम के सामने तकरीबन रात 12-बजे बेकाबू स्वराज माजदा गाड़ी नं CG 13 L 4460 ने आटो रिक्शा को जबरदस्त ठोकर मार दी। वहां मौजूद प्रत्यक्ष दर्शियों ने बताया कि ऑटो चालक एवं पीछे बैठी एक महिला को गम्भीर चोटें आई हैं है ।जिन्हें जिला अस्पताल प्रारंभिक इलाज के लिए भेज दिया गया है। दुर्घटना करने वाली गाड़ी में छत्तीसगढ़ शासन आबकारी विभाग .मदिरा परिवहन कार्य करने हेतु लिखा हुआ है। पुलिस द्वारा कार्यवाही करते हुए ड्राइवर के साथ गाड़ी अपने कब्जे में ले लिया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 April 2022

raigarh, MLA surrendered ,son to the police station

रायगढ़। थाने में घुसकर पुलिस आरक्षक से मारपीट करने के मामले में फरार आरोपित रितिक नायक सहित 6 लोगों ने मंगलवार को कोतवाली थाने में सरेंडर कर दिया। विधायक प्रकाश नायक खुद अपने बेटे रितिक नायक को सरेंडर कराने थाने लेकर पहुंचे थे। उन्होंने इस दौरान विधायक प्रकाश नायक ने कहा कि, उन्होने जिम्मेदार जनप्रतिनिधि होने का फर्ज निभाया है और अपने बेटे को सरेंडर कराया है। उन्हें न्यायपालिका पर पूरा भरोसा है। दरअसल तीन दिन पहले विधायक पुत्र रितिक नायक ने अपने कुछ दोस्तों के साथ ट्रक चालक से मारपीट की थी। थाने में रिपोर्ट दर्ज कराने पहुंचे ट्रक ड्राइवर के साथ साथ ड्यूटी में तैनात पुलिस आरक्षक को भी थाने में घुसकर पीटा था। मामले में पुलिस ने पीडित ट्रक चालक के साथ साथ घायल पुलिस आरक्षक की रिपोर्ट पर विधायक पुत्र रितिक नायक सहित छह लोगों के खिलाफ 294, 506 353 323 34 आईपीसी के तहत मामला दर्ज किया था। मामले में मंगलवार को सभी छह आरोपित रितिक नायक, सुयश राय, उपेन्द्र डडसेना, तरुण पटेल, राज पटेल व समीर पटेल ने कोतवाली में सरेंडर किया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 April 2022

raigarh,Chhattisgarh,Secretary of District ,Congress Committee ,resigned

रायगढ़। शहर कांग्रेस में इन दिनों अपनी बात मनवाने इस्तीफे का दौर चल रहा है।चाहे बात पद से बर्खास्त करने की हो या फिर अवैध निर्माण के मुद्दे पर संज्ञान लेने की ।लेकिन इस गुटबाजी का खामियाजा कांग्रेस को आने वाले चुनाव में निश्चित तौर पर भुगतना भी पड़ सकता है।ताज़ा मामला वार्ड क्रमांक 19 निवासी जिला कांग्रेस कमेटी के सचिव आशीष शर्मा का है । आशीष शर्मा ने नगर निगम पर उनके वार्ड की अनदेखी करने का आरोप लगाते हुए मंगलवार को कांग्रेस कार्यालय में विधिवत पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से अपने समर्थकों के साथ इस्तीफा देने का ऐलान किया है। आशीष शर्मा का कहना है कि वार्ड नंबर 19 से जुड़े विकास कार्यों व अवैध अतिक्रमण को लेकर वे लगातार मांग करते आ रहे हैं लेकिन उनकी मांगो को हमेशा ही नगर निगम द्वारा अनदेखी किया जाता रहा है ।इसलिए ऐसे पार्टी व पद में बने रहने का कोई औचित्य नहीं रह जाता।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 March 2022

  looting

पुलिस ने आरोपियों  को  गिरफ्तार कर रिमांड पर भेजा        जूटमिल क्षेत्र के कोड़ातराई मेन रोड़ और पटेलपाली मेन रोड़ में नकली पिस्टल दिखाकर लूटपाट करने वाले तीन आरोपित को जूटमिल पुलिस गिरफ्तार कर रिमांड पर भेजा गया है । आरोपितों से नकली पिस्टल, सात मोबाइल व एक स्कूटी भी  जब्त की गई है । आरोपियों  ने 27 सिंतबर की शाम पटेलपाली के मेन रोड़ पर ग्राम जोगीतराई थाना पुसौर में रहने वाला तोयेष नायक और उसके दोस्त आकाश पटेल से नकली पिस्टल दिखाकर मोबाइल लूट की थी। उसी शाम आरोपियों द्वारा लूटपाट की एक और घटना कोडातराई मेन रोड़ पर अंजाम दिया, उन्होंने ग्राम तेतला थाना पुसौर में रहने वाले अनूप भोय   और उसके दोस्त लाभोराम निषाद की मोबाइल लूट कर भागे थे। अनूप भोय अपने निजी काम से मोटर साइकिल पर ग्राम कोडातराई आये थे, वापस जाते समय घटना कारित किया गया था। लूटपाट के पीड़ितो द्वारा रिपोर्ट दर्ज कराये जाने पर सभी को 392, 34 आइपीसी के तहत अपराध दर्ज कर गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 September 2021

 Gutkha tobacco smuggling

प्रेस लिखी गाड़ी में ले जा रहे थे गुटखा   रायगढ़ में   प्रेस लिखी गाड़ी में  गुटखा और  तम्बाखू की तस्करी करने वाले दो लोगों  को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया  | गुटखे की कीमत करीब साठ हजार रुपये बताई जा रही है |  लॉक डाउन में अवैध गुटखे का कारोबार बढ़ता जा रहा है  | गुटखा तस्करों द्वारा आये दिन नए तरीके से गुटखा बेचा जा रहा  | लॉक डाउन के दौरान सामान के ट्रांसपोर्ट में बंदिश लगाईं गई है   |  जिसके चलते लोग  नए तारीखे से गुटखे की तस्करी में लग गए हैं  |  रायगढ़ में प्रेस लिखी गाड़ी में अवैध गुटके की तस्करी का मामला सामनेआया है | दो लोगों को कोतवाली पुलिस ने गुटखा तस्करी के मामले में  गिरफ्तार किया है  | बताया जा रहा है की तस्कर शहर में माल खापाने की फिराक में घूम रहे थे  |  चेकिंग के दौरान कार में 9 बोरी गुटखा बरामद किया गया  | जिसकी कीमत  लगभग 60 हजार  बताई जा रही है  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 May 2020

 T.S . SINGH DEV

सिंहदेव : छत्तीसगढ़ सरकार के पास पैसे की कमी   छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने स्वीकार किया कि किसानों की कर्ज माफ़ी के बाद सरकार के पास फंड की कमी हो गई है  | लेकिन धीरे धीरे सब ठीक हो रहा है  |  छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव  जशपुर के पत्थलगांव पहुंचे और  हेल्थ एसोसियेशन के  स्वर्ण जयंती समारोह में शामिल हुए  |  स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा  कि स्वास्थ्य के क्षेत्र में उन्हें जो जिम्मेदारी दी गयी है उसपर वह पूरी कोशिश कर रहे हैं  | व्यवस्था सुधारने पर उनका ध्यान है   | उन्होंने सड़क की बदहाली पर कहा कि 11 हजार करोड़ की कृषक ऋण माफी के बाद सरकार के पास अन्य कार्यो पर खर्च करने के लिए पैसे की कमी आ गयी थी लेकिन अब धीरे धीरे सभी कार्य शुरू किए जाएंगे  |  स्टेट हाइवे और नेशनल हाइवे निर्माण में भारी अनियमितता बरती गई है 6 महीने में ही सड़कें उखड़ गयी हैं  | . इसके जिम्मेदार ठेकेदार और विभाग के अधिकारी  हैं और इनके खिलाफ जांच के बाद कड़ी कार्यवाही की जाएगी  ... कार्यक्रम के बाद  स्वास्थ्य मंत्री अचानक सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पत्थलगांव पहुंचे  |  उन्होंने यहाँ सभी वार्डों में जाकर मरीजों उनका हाल चाल जाना व हॉस्पिटल कार्यलय का  औचक निरीक्षण कर  जायजा लिया  | इसी बीच  डॉक्टरों एवं स्थानीय निवासियों द्वारा हॉस्पिटल की  कमियां बताये जाने पर सिंहदेव ने तत्काल उनको दूर किये जाने के निर्देश दिए |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 October 2019

 UFANTE NALE

छत्तीसगढ़ के नेता -अधिकारी किसी का नहीं है ध्यान    स्कूली बच्चे रायगढ़ के घरघोड़ी में जान जोखिम में डाल कर उफनते नाले को पार करते हैं  | कई सारे अधिकारी और नेता यहाँ आये गए हो गए लेकिन किसी ने भी इन बच्चों की चिंता नहीं की |  ग्रामीणों ने कई बार अपनी समस्या सब को बताई लेकिन कोई सुनने वाला नहीं है  |  रायगढ़ जिला मुख्यालय से महज 45 किलोमीटर दूर बसा  ग्राम बेलडिपा के बच्चे इन दिनों स्कूल जाने के लिए रोज अपनी जान जोखिम में डालते हैं  |  यह सिलसिला साल में चार महीने चलता है  | इन बच्चों के लिए स्कूल जाना और वहां से वापस आना किसी जोखिम से कम नहीं है  | घरघोडी और बेलडिपा के बीच एक नाला पड़ता है  |  इस नाले को जरकट नाला के नाम से जाना जाता है, जिसमें स्थानीय ग्रामीणों द्वारा पुल बनाने की मांग कई वर्षों से की जा रही है |  परंतु यह दुर्भाग्य है देश की आजादी के 73 वर्ष के बाद भी कोई नेता और अधिकारी यहाँ एक छोटा सा पुल तक नहीं बनवा सका  |  बारिश में पानी आते ही नाला उफान पर आ जाता है और इस पर एक रस्सा बांधा जाता है  |  फिर लोग बच्चों को पीठ पर बैठाकर नाला पार करवाते हैं और अगर कोई बड़ा साथ न हो तो बच्चों की खुद ही उफनता नाला पार करना पड़ता है  | इन ग्रामीणों की मांगों को आज तक किसी जनप्रतिनिधि और अधिकारी ने नहीं सुना  |  बारिश के दौरान यह गांव एक टापू के रूप में बन जाता है   |  ग्रामीणों में इस बात का भय हमेशा बना  है कि किसी प्रकार कोई हादसा न हो जाए |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 August 2019

मार्टिन उराव

रायगढ़ में 24 वर्षीय युवक मार्टिन उरांव की लाश मिलने से पुरे गावं में हड़कंप मच गया । मार्टिन की के परिवार वालों ने उसकी हत्त्या का शक जताया हैं और  प्रेमिका पर उसकी हत्या की आशंका व्यक्त की हैं।  खरसिया के वार्ड क्रमांक 18 एफसीआई मोहल्ला मै रहने वाले मार्टिन उरांव खरसिया स्टेशन रोड के कुलदीप साइकिल स्टोर में साइकिल मिस्त्री का काम करता था। जिसका खरसिया अटल आवास में रहने वाली सुखमती नामक महिला के साथ प्रेम संबंध था। जिस कारण मार्टिन उराव अक्सर अटल आवास आना-जाना करता था। घटना के दिन भी मार्टिन उरांव अटल आवास खरसिया निवासी महिला से मिलने गया था। जहां स्वयं मृतक मार्टिन उरांव  ने अपनी प्रेमिका सुखमति और  तीन चार लोगों के लिए खाना बनाया था। लेकिन रात बिट जाने के बाद अचानक सुबह लगभग 6 बजे के आसपास मोहल्ले के कुछ लोगो ने नाले में युवक को औंधे मुंह गिरा देखा तो घटना की सूचना पुलिस को दी। ..   पुलिस ने मौके पर पहुंचकर स्थानीय लोगो की मदद से नाले से युवक को बाहर निकाला युवक की मौत हो चुकी थी ,   मौका मुआयना कर पुलिस ने पंचनामा बनाया और लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया हैं | मृतक मार्टिन उरांव के परिजनों ने किसी अनहोनी घटना की आशंका जताई जा रही है। युवक मार्टिन उरांव अक्सर सुखमती के घर ही रहता था। घटना दिन वह सुखमती के घर ही खाना खाया था।   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 June 2019

रायगढ़

    हावडा मुंबई रेल रूट पर रायगढ़ और किरोड़ीमल रेलखंड के बीच शुक्रवार की रात लगभग 11:15 बजे दो मालगाड़ी आपस में टकरा गए। इसकी सूचना मिलते ही रायगढ़ से लेकर बिलासपुर डिवीजन तक हड़कंप मच गया। आनन-फानन में इंजीनियरिंग, ओएचई, सिग्नल, ऑपरेटिंग विभाग के अधिकारी- कर्मचारी घटनास्थल पर पहुंचे और ट्रेक को ठीक करने में जुट गए। हादसे में मालगाड़ी के इंजन के कुछ पहिए पटरी से उतर गए थे। इसे ठीक करने में काफी मशक्कत करनी पड़ी। इस बीच हावड़ा मुंबई रेल मार्ग पर ट्रेनों का परिचालन पूरी तरह बाधित रहा। करीब छह घंटे की मशक्कत के बाद सुबह 5:15 बजे दोनों रेल इंजन एवं पटरी को दुरुस्त कर रेल मार्ग में परिचालन आरम्भ हो पाया है और लगभग दो धंटे बाद परिचालन सामान्य हुआ। हादसे के कारण हावड़ा—मुंबई रेल मार्ग पर कई ट्रेन विलंब से रायगढ पहुंची। प्रारंभिक जांच में यह बात सामने आई है कि किरोड़ीमल रायगढ़ स्टेशन के बीच 20 जून से एनआई वर्क चल रहा है, इस वजह से मैनुअली वर्क कर ट्रेनों का परिचालन किया जा रहा है। इसी दौरान मानवीय गलती से यह हादसा हुआ। रेलवे द्वारा मामले की जांच कराई जा रही है। जांच के बाद कई दोषी अधिकारियों पर कार्रवाई की गाज गिरने की आशंका है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 June 2018

पुलिस लाइन रायगढ़

रायगढ़ पुलिस लाइन में बुधवार दोपहर उस समय हड़कंप मच गया, जब यहां के प्रशासनिक भवन में स्टोर रूम में आग लग गई। तत्काल फायर बिग्रेड को सूचित किया गया, जिसके बाद आग पर काबू पाया गया। इस घटना में वीआईपी सुरक्षा में इस्तेमाल किए जानेवाले उपकरण सहित कई जरूरी दस्तावेज जलकर खाक हो गए है। फिलहाल स्टोर रूम में हुए नुकसान का आकलन किया जा रहा है। घटना बुधवार दोपहर तीन बजे के आसपास की है। जब उर्दना स्थित पुलिस लाईन में बने प्रशासनिक भवन की सुरक्षा में लगे सिक्योरिटी गार्ड ने स्टोर रूम में धुआं निकलते हुए देखा। जिसके बाद रक्षित केंद्र के प्रभारी को इसकी सूचना दी गई और आग पर काबू पाने के लिए फायर बिग्रेड को बुलाया गया। जब तक फायर बिग्रेड की गाड़ी यहां पहुंची तब तक स्टोर रूम में रखे हएु सामान जल कर खाक हो गए थे।  प्रशासनिक भवन के स्टोर रूम में लगी आग में यहां वीआईपी सुरक्षा के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले सामान को नुकसान पहुंचा है। इसके अलावा कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेज, फर्नीचर जल गए है। माना जा रहा है कि स्टोर रूम में आग लगने का कारण बिजली का शार्ट सर्किट हो सकता है। हालांकि इसकी पुष्टि अधिकारियों ने नहीं की है। वहीं पुलिस ने आग से हुए नुकसान का आकलन करने की बात कहके कुछ स्पष्ट कहने की बात कही है। इस भवन को दो माह पहले ही बनाया गया है। जिसके बाद पुराने भवन से नए भवन में काम शुरू किया गया है। अब चूंकि शॉर्ट सर्किट को आग लगने का कारण बताया गया है। ऐसे में निर्माण में गड़बड़ी की बात से इंकार नहीं किया जा सकता है।  रक्षित केंद्र, उर्दना की आर आई मंजूलता केरकट्टा ने बताया स्टोर रूम में आग लगी थी। जिसमें वीआईपी सुरक्षा में इस्तेमाल होन वाले उपकरण, सहित दस्तावेज जल गए है। आग लगने का कारण शार्ट सर्किट हो सकता है। जांच के बाद ही स्पष्ट कहा जा सकता है।    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 October 2017

रायगढ़ elephant

रायगढ़ से छाल-हाटी की ओर जाने वाले मार्ग को 40 हाथियों के एक दल ने रोक दिया है। मिली जानकारी के मुताबिक कोरबा के घने जंगल के निकलकर करीब हाथियों का दल मुख्य मार्ग पर आ गया है। वन विभाग के मुताबिक हाथियों के दल को मुख्य मार्ग से दूर करने का प्रयास किया जा रहा है। हाथियों के गतिविधियों पर वन विभाग के कर्मचारी नजर रख रहे हैं। गौरतलब है कि मुख्य मार्ग बाधित होने के कारण यहां यातायात पर भी असर पड़ा है। कई लोगों को अपने गंतव्य स्थल पर जाने में देरी हो रही है। जिस क्षेत्र में हाथियों का दल घूम रहा है वहां के ग्रामीणों को अलर्ट कर दिया गया है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 May 2017

मुख्यमंत्री रमन सिंह

मुख्यमंत्री रमन सिंह आज रायगढ़ में प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक में हिस्‍सा लेने के लिए पहुंचे हैं। इस बैठक की अध्‍यक्षता प्रदेश भाजपा अध्‍यक्ष कर रहे हैं। मुख्‍यमंत्री रमन सिंह के पहुंचते ही यह साफ हो गया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के फरमान के असर दिख रहा है क्‍योंकि वो जिस काफिले के साथ पहुंचे उसमें लालबत्‍ती की गाड़ी शामिल नहीं थी। इसके बाद बैठक शुरू होते ही मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने लालबत्ती में आए मंत्रियों को पहला झटका दिया। उन्‍होंने कहा कि जो भी मंत्री लालबत्‍ती में बैठक में हिस्‍सा लेने आए हैं वो जब वापस जाएं तो उसे यहीं छोड़ जाएं। इस बैठक में कई अहम फैसले लेने के संंकेत दिए जा रहे है। सरकार आगे किस प्रकार शराबबंदी जैसे मुद्दों से निपटेगी इसकी रूप रेखा पर भी विचार किया जा सकता है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 April 2017

अब शिक्षक बनाएंगे बच्चों के जन्म प्रमाण-पत्र

स्कूलों में पढ़ने वाले ऐसे बच्चे जिनका अब तक जन्म प्रमाणपत्र नहीं बना है, उनके लिए अच्छी खबर है। शिक्षा विभाग जल्द शासकीय व निजी स्कूलों में बर्थ सर्टिफिकेट बनाने की तैयारी कर रहा है। प्रत्येक स्कूल के एक शिक्षक को जन्म प्रमाणपत्र बनाने की प्रक्रिया का प्रशिक्षण दिया जाएगा।  इसके लिए अब सरकारी व निजी स्कूलों में बच्चों का जन्म प्रमाणपत्र बनाने पर जोर दिया जाएगा। चूंकि ज्यादातर ग्रामीण क्षेत्रों में प्रसव के वक्त बच्चों की पैदाइश घरों में पुराने तरीके से कराई जाती है। ऐसे में जागरूकता की कमी से बड़ी संख्या में ऐसे बच्चे का जन्म प्रमाणपत्र स्कूलों में आकर भी नहीं बन सका है। शासन के निर्देश पर जिला सांख्यिकी विभाग व शिक्षा विभाग की संयुक्त टीम अब जन्म प्रमाणपत्र विहीन बच्चों को लक्ष्य कर उनका सर्टिफिकेट बनाने का अभियान शुरू करने जा रहा है। इसके तहत शासकीय व निजी सभी स्कूलों को टारगेट कर प्रमाणपत्र बनाने की कार्रवाई की जाएगी। माना जा रहा है कि ज्यादातर निजी स्कूलों में बच्चों के प्रवेश का आधार जन्म प्रमाणपत्र होता है। बावजूद इसके मुहिम से निजी स्कूलों को जोड़ते हुए शासकीय स्कूलों में विशेष शिविर लगाए जाएंगे। इनमें स्कूल के शिक्षक प्रमाणपत्र बनाने आवेदन भरने में पालकों की मदद करेंगे। इस प्रक्रिया के शिक्षकों को पहले विशेष प्रशिक्षण दिया जाएगा। प्राइमरी व मिडिल स्कूलों को फोकस करते हुए वहां के छूटे बच्चों को विशेष कैंप लगाकर पहले प्रमाणपत्र बनाया जाएगा। मिली जानकारी के अनुसार वर्ष 2008 से जन्म-मृत्यु पंजीयन किया जा रहा है। इससे पहले के वर्षों में जन्म लेने बच्चों का रिकार्ड पंचायतों में नहीं है। जन्म प्रमाणपत्र बनाने की प्रक्रिया के लिए विशेष तौर पर विभाग ने स्कूलों में उपलब्ध रिकार्ड के आधार पर ऐसे बच्चों का सर्वे कराया है। जिसके जरिये बिना प्रमाणपत्र उन बच्चों का चिन्हांकन कर लिया गया है। शिक्षा विभाग द्वारा विकासखंड शिक्षा अधिकारियों की मदद से पहले हरेक ब्लॉक को कवर करते हुए जिलेभर के शासकीय मिडिल व प्राइमरी स्कूलों का सर्वे कराया जाएगा। विभाग का मानना है कि सरकारी व निजी स्कूलों में करीब 40 हजार बच्चे ऐसे हैं जिनका प्रमाणपत्र अब तक नहीं बना है। ऐसे में सर्टिफिकेट बनाने शिक्षा विभाग पहले प्रस्तावित करेगी। इसके बाद विशेष बच्चों का सर्टिफिकेट बनाने का काम प्रारंभ किया जाएगा। डीईओ, रायगढ़ आरएन हीराधर ने बताया वर्तमान में स्कूलों में जन्म प्रमाणपत्र को अनिवार्य किया गया है। ऐसे में विभाग द्वारा स्कूल के शिक्षकों को पहले ट्रेनिंग दी जाएगी, उसके बाद स्कूल स्तर पर ही प्रमाणपत्र बनाए जाएंगे। आदेश मिलने के उपरांत कार्य प्रारंभ किया जाएगा।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 March 2017

मानव तस्करी

  रायगढ़ जिले के  कांपू से पुलिस ने 6 नाबालिग सहित 15 लोगों को बरामद किया है। इन्हें प्लेसमेंट एजेंसी चलाने वाला एक व्यक्ति मुंबई और गोवा ले जा रहा था। पुलिस के वहां पहुंचते ही वह फरार हो गया। जानकारी के मुताबिक पुलिस को सूचना मिली थी कि कुछ लोगों को नौकरी का लालच देकर बाहर ले जाया जा रहा है। मानव तस्करी का मामला सामने आते ही पुलिस तुरंत मौके पर पहुंची तो प्लेसमेंट एजेंसी वाला वहां से फरार हो गया। इसके बाद पुलिस 6 नाबालिग सहित 15 लोगों को थाने लेकर पहुंची और उनसे उनके घर का पता और प्लेसमेंट एजेंसी वाले की जानकारी ली। यह पहली बार नहीं है जब नौकरी दिलाने के बहाने लोगों को इस तरह बड़े शहरों में ले जाया जा रहा हो। मानव तस्करी करने वालों के लिए छत्तीसगढ़ के आदिवासी इलाके इसके लिए सबसे आसान निशाना बन गए हैं।    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 March 2017

मरवाही विधायक अमित जोगी

  प्रसिद्द पंडवानी गायक पद्मश्री पूनाराम निषाद के निधन पर उनके परिजनों से मिलने गए मरवाही विधायक अमित जोगी ने उनके इलाज के दौरान हुई लापरवाही और अमानवीय व्यवहार की कड़ी निंदा की है। देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान प्राप्त व छत्तीसगढ़ का नाम देश विदेश में रोशन करने वाले, पद्मश्री पूनाराम जी दर्द से करहा रहे थे और डॉक्टरों ने परिजनों से कहा कि "पेट दर्द है तो क्या इनका पेट फाड़ दें "? अमित जोगी ने कहा कि ये रव्वैया सरकार की छत्तीसगढ़ विरोधी मानसिकता का परिचायक है। जो बॉलीवुड अभिनेत्री करीना कपूर पर तो 8 मिनट के डेढ़ करोड़ लुटाती है लेकिन छत्तीसगढ़ के एक प्रख्यात लोक कलाकार के लिए एक फूटी कौड़ी की मदद करना तो दूर उल्टा उनके साथ ऐसा अमानवीय व्यवहार किया जाता है जिससे वो इलाज और पैसे के आभाव में तड़प तड़प कर मर जाते हैं। अमित जोगी ने पूनाराम निषाद की मौत को सरकारी हत्या करार देते हुए उनके इलाज के दौरान हुई लापरवाही की न्यायिक जांच और दोषियों पर कड़ी कार्यवाही की मांग की है। अमित जोगी ने कहा कि पूनाराम जी के परिजन मदद मांगने बार बार मुख्यमंत्री कार्यालय जाते रहे, यहाँ तक कि वो मुख्यमंत्री से भी मिले लेकिन उन्होंने मदद करने से केवल इसलिए इनकार कर दिया क्योंकि उनके पास आवेदन की प्रति नहीं आयी थी। परिजनों ने मंत्रियों से लेकर मुख्यमंत्री तक सब से गुहार लगाई लेकिन सभी ने टाल दिया। जोगी ने कहा कि स्थिति गंभीर होने के बावजूद पूनाराम जी को आईसीयू में रखने के बजाय आंबेडकर अस्पताल के जनरल वार्ड में बाथरूम के बगल में जगह दी गयी। भर्ती के बाद न उन्हें बेड दिया गया और न ही चादर दी गई। इसके चलते रातभर वे स्ट्रेचर पर ही पड़े रहे। दूसरे दिन भी इलाज शुरू नहीं किया गया। अंतत: तीसरे दिन पेट दर्द से कराहते उनके प्राण उखड़ गए। शव उठाने के लिए कोई वार्ड बॉय नहीं था। जोगी ने कहा कि ऐसी सरकार के रहने का क्या औचित्य जो अपने राज्य की कला और संस्कृति के गौरव के साथ ही असंवेदनशील और अमानवीय वयवहार करे।    अमित जोगी ने कहा कि छत्तीसगढ़ के लोक कलाकार रमन राज में तिरस्कृत और अपमान भरा जीवन जीने मजबूर हैं। राज्य सरकार बॉलीवुड कलाकारों को जो देना है दे लेकिन स्थानीय कलाकारों की अवमानना उचित नहीं है । *राज्योत्सव में जहाँ सोनू निगम और बड़े कलाकारों को करोड़ों दिए जाते हैं वहीँ छत्तीसगढ़ के स्थानीय कलाकारों के साथ भेदभाव और अपमानजनक व्यवहार होता है। जोगी ने कहा कि छत्तीसगढ़ विरोधी इस मानसिकता का अंत जल्द ही होगा। 2018 में जोगी सरकार बनते ही छत्तीसगढ़ की लोक कला, कलाकार और संस्कृति को सर्वोच्च स्थान और सम्मान पुनः मिलेगा।    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 February 2017

hathi

रायगढ़ के बंगुरसिया सर्किल में 40 से अधिक हाथियों का जमावड़ा है। बताया जा रहा है कि बीती रात हाथी के दल ने किसानों के केला, आलू, प्याज के अलावा गोभी के फसल को नुकसान किया गया है। विभाग की माने तो दो दिन पहले ओडिशा के जंगल से 25 हाथी बंगुरसिया के जंगल की ओर आए है। वहीं पहले से 18 हाथी विचरण कर रहे है। ऐसे में अब वन विभाग नुकसानी का आंकलन करने में लगे हैं। शनिवार की रात को बंगुरसिया सर्किल में हाथियों ने जमकर उत्पात मचाते हुए किसानों के फसल को बर्बाद किया है। बताया जा रहा है कि बंगुरसिया के जंगल में पहले से 18 हाथी विचरण कर रहे है। वहीं दो दिन पहले ओडिशा के जंगल से 25 हाथी का दल आकर डेरा जाम लिया है। इस हिसाब से बंगुरसिया सर्किल में 40 से अधिक हाथी का जमावड़ा है। बीती रात हाथियों ने बंगुरसिया के एक किसान के केले के पौधे को रौंदकर बर्बाद कर दिया है। उसके अलावा 7-8 किसानों के प्याज, गोभी सहित अन्य फसलों को नुकसान किया है। ग्रामीणों द्वारा मामले की जानकारी वन विभाग को देने के बाद दूसरे दिन शनिवार को वन विभाग की टीम नुकसानी का आंकलन कर उनको मुआवजा देने की बात कही जा रही है। इस संबंध में ग्रामीणों का कहना है कि दिन भी हाथी जंगल की ओर रहते है। वहीं शाम होते ही हाथी का दल जंगल से निकलकर गांव की ओर आते है और किसानो के फसलों को नुकसार करते है। ग्रामीण अपने जानमाल के हानि को रोकने रात जागने को मजबूर होते है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 January 2017

tantr ilaj

रायगढ़ में  अब स्वास्थ्य विभाग बाबा और गुनिया का इस्तेमाल इलाज में करेगा । खासकर मानसिक रोगियों के लिए विभाग बाबाओं को ट्रेनिंग देगी कि उन्हें कैसे ठीक किया जा सकता है। दरअसल मानसिक संतुलन बिगड़ने पर ज्यादातर ग्रामीणों बाबाओं के पास पहले जाते हैं। ऐसे में स्वास्थ्य विभाग का मानना है कि ऐसे में बाबाओं द्वारा मानसिक रोगियों की न केवल पहचान कर पाएंगे बल्कि उन्हें उचित इलाज भी मुहैया कर सकेंगे। पर सवाल यह है कि बिना पढ़े लिखे बैगा और गुनिया विभाग की उम्मीदों पर कितना खरा उतर पाएंगे। इधर पुलिस लोगों में अंधविश्वास भगाने बाबाओं से दूर रहने की सलाह दे रही है तो विभाग को कैसे सफलता मिलेगी। इन दिनों मेंटल हेल्थ केयर की टीम जिले के बैगा, गुनिया व ओझा बाबाओं की खोजबीन में जुटी है। इसके पीछे विभागीय अधिकारियों का तर्क है कि जब भी कोई व्यक्ति मानसिक तौर पर विकृत होता है तो परिजन सबसे पहले उन्हें ऐसे बाबाओं के पास लेकर जाते हैं। दरअसल ग्रामीण अंचलों में ओझा बाबाओं की मान्यता बहुत ज्यादा होती है। ग्रामीण चिकित्सकों की बजाए बाबाओं पर ज्यादा भरोसा करते हैं। गौरतलब है कि शासकीय मेडिकल कॉलेज अस्पताल में पिछले दो वर्ष से मानसिक स्वास्थ्य केंद्र शुरू किया गया है। लेकिन यहां मरीजों की संख्या उम्मीद के मुताबिक कम है। बताया जाता है कि प्रतिदिन यहां सिर्फ इक्के-दुक्के ही पहुंचते हैं। ऐसे में विभाग मानसिक रोगियों की खोजबीन में अनाधिकृत बाबाओं की मदद लेना चाहता है। माना जाता है कि स्वास्थ्य विभाग चिन्हांकित बाबा मरीजों की पहचान करेंगे और आरंभिक उपचार पश्चात उन्हें स्वास्थ्य विभाग के हवाले करेंगे। स्वास्थ्य विभाग की मुश्किल इसलिए भी बढ़ी है क्योंकि अब विभाग द्वारा मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम चलाया जाना है। यह तभी सफल माना जाएगा जब मरीजों की संख्या तय सीमा के करीब होगी। चूंकि अभियान राज्य सरकार के निर्देश पर चलाया जाना है। ऐसे में विभाग को यहां पहुंचे मरीजों के संख्या की रिपोर्ट प्रस्तुत करनी होगी। लिहाजा स्वास्थ्य विभाग अब जिले के ओझा बाबाओं पर ज्यादा भरोसा कर रहा है। इसके लिए विभाग उन्हें एक दिवसीय ट्रेनिंग देकर प्रशिक्षित करेगा कि मानसिक रोगियों का किस तरह उपचार किया जाएगा। हालांकि ट्रेनिंग में बाबाओं को यही सिखाया जाएगा कि वह उनकी आरंभिक उपचार कैसे करें। आरंभिक प्रक्रिया के पश्चात उन्हें चिकित्सकों के पास भेजने की बात कही जा रही है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा इस तरह मरीज ढूंढने का अनोखा किस्सा यह पहला नहीं है। इससे पहले नवंबर माह में एक विशेष तरह की ट्रेनिंग में जिले के झोलाछाप चिकित्सकों को शामिल किया गया था। आधिकारिक सूत्रों की मानें तो ट्रेनिंग में उन्हें यह सलाह दी गई है कि उनके पास यदि कोई टीबी का मरीज पहुंचेगा तो सबसे पहले उन्हें किस तरह उपचार करना है। आरंभिक उपचार के पश्चात उन्हें स्वास्थ्य केंद्रों में भेजने के लिए उन्हें प्रशिक्षित किया गया है। हालांकि इसका अंदाजा नहीं लगाया जा सकता कि प्रशिक्षित झोलाछाप डॉक्टरों ने अब तक कितने मरीजों को स्वास्थ्य केंद्रों में भेजे हैं। वहीँ जिला पुलिस जिले के अधिकांश ग्रामीण क्षेत्रों से अंधविश्वास दूर करने रोजाना नये प्रयोग कर रही है। इसके चलते पिछले दिनों महाराष्ट्र के नागपुर शहर से विशेषज्ञों की टीम यहां पहुंची थी। उनके द्वारा शहर के अलावा कापू के ग्रामीण क्षेत्रों में विशेष कैंपेन चलाया गया। विशेषज्ञों ने इसके जरिये ग्रामीणों के सामने अनेक प्रयोग भी किया। समाज से अंधविश्वास दूर करने के लिए पुलिस ये भी मानती है कि अगर कभी भी कोई तांत्रिक किसी व्यक्ति को परेशान करता है तो वे उसके खिलाफ थाने में रिपोर्ट दर्ज कर सकते हैं। बताया यह भी जाता है कि मेंटल हेल्थ केयर की टीम को हिंदु समाज के ओझा ढूंढने में परेशानी हो रही है। जबकि मुस्लिम समुदाय के तीस तांत्रिकों को विभाग ने चिन्हांकित कर लिया हैं। इसी तरह सिख और इसाई समाज के तांत्रिक भी अब तलक नहीं मिल पाए हैं। मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम के नोडल अधिकारी डॉ. टीके टोण्डर ने बताया जिले में मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम चलाया जाना है, जिसमें मानसिक रोगियों की खोजबीन की जानी है। कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए तांत्रिक,ओझा, गुनिया जैसे बाबाओं की मदद ली जाएगी। दरअसल ग्रामीण क्षेत्र के ज्यादातर मरीज उनके पास इलाज के लिए पहुंचते हैं। ऐसे में यदि उनके पास कोई मरीज ऐसी हालत में पहुंचता है तो वे स्वास्थ्य केंद्रों में भेजें। इसके लिए उन्हें ट्रेनिंग दी जाएगी।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  15 January 2017

raigarh

    राजेन्द्र जायसवाल  रियल स्टेट के कारोबार मे साझेदार होनें के बावजूद अपने अन्य भागीदारों को धोखे में रखकर कुटरचना से 44 लोगों को गजानंदपूरम की जमीन अकेले बेचकर लगभग एक करोड 16 लाख रूपये हड़प लेने के मामले में रायगढ़ पुलिस ने भागीदार भाई आनंद अग्रवाल की लिखित शिकायत पर होटल संचालक अशोक अग्रवाल के खिलाफ धोखाधडी का अपराध पंजीबद्ध कर लिया है। इस संबंध में मिली जानकारी के मुताबिक होटल अंश के संचालक अशोक अग्रवाल का होटल बिजनेस के साथ-साथ रियल स्टेट का भी कारोबार है और मेसर्स दादू बिल्डर्स एण्ड डेवलपर्स के नाम से अशोक के साथ-साथ उनके भाई आनंद अग्रवाल, आनंद की पत्नी श्रीमती निमा अग्रवाल तथा अशोक अग्रवाल की धर्मपत्नी श्रीमती सुधादेवी अग्रवाल फर्म के साझेदार है। इस फर्म के माध्यम से गत 27 अक्टूबर 2004 को एक साझेदारी विलेख निष्पादित किया गया था जिसके तहत फर्म द्वारा भवन निर्माण हाउसिंग प्रोजेक्ट व रियल स्टेट के कारोबार में फर्म को काम करना था।  इस फर्म के माध्यम से विलेख निष्पादित होनें के बाद बैकुण्ठपुर स्थित पटवारी हल्का नंबर 13 वार्ड नं 1 राजीव नगर में जमीन क्रय करके उसे डेवलप किया गया और गजानंद पुरम के नाम से उसे ग्राहकों को बेचने का निर्णय लिया गया था। साझेदारी विलेख के अनुसार कोई भी अकेलो भागीदार अन्य भागीदार के सहमति के बिना फर्म की संपत्ति का विक्रय, स्थानांतरण या बंधक रखने का कार्य नही कर सकता। इस बात का उल्लेख विलेख के कंडिका 13 में भी वर्णित था इसके बावजूद आरोपी अशोक अग्रवाल के द्वारा गजानंदपुरम कालोनी में विभिन्न साईज का लेआउट निकालकर अकेले ही 44 लोगों को उक्त फर्म की भूमि को बेच दिया गया और अवैध रूप से एक करोड 16 लाख 52 हजार 4 सौ रूपये हडप लिये गये। आरोपी के द्वारा विलेख को जानते समझते समय 44 कूट रचित विक्रय पत्र फर्म के नाम से तैयार किया गया और अकेले ही जमीन विक्रय से मिली राशि ग्राहकों से ले ली गई। इस मामले में फर्म के एक अन्य साझेदार आनंद अग्रवाल की ओर से कोतवाली थाने में लिखित शिकायत देते हुए आरोपी अशोक अग्रवाल के खिलाफ धारा 406, 420, 467, 468 व 471 के तहत अपराध पंजीबद्ध करने की मांग की गई थी। पुलिस ने इस मामले में सभी पहलुओं की जांच उपरांत आज आरोपी अशोक अग्रवाल के खिलाफ जमीन की गलत तरीके से खरीद बिक्री करने तथा साझेदारी विलेख का उल्लंघन करते हुए साझेदार को धोखा देने के मामले में धारा 420 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर लिया है। समाचा लिखे जाने तक इस मामले में आरोपी की गिरफ्तारी नही हो सकी थी।  

Patrakar rajendra jaiswal

 rajendra jaiswal  22 December 2016

ऑनलाइन ब्लड बैंक

  रायगढ़ में मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल के ब्लड बैंक को दो माह पहले ऑनलाइन किया गया है। इसके जरिये ब्लड बैंक में खून की उपलब्धता, सीपीडी बैग की जानकारी समेत अन्य प्रकार की सूचनाओं को अपडेट करने ऑनलाइन सिस्टम शुरू की गई। लेकिन मेडिकल कॉलेज अस्पताल में इस नियम को सख्ती करने के बाद भी मरीजों की समस्या दूर नहीं हो रही। आए दिन यहां पहुंचने वाले मरीजों को चक्कर काटते हुए देखा जा सकता है। राज्य शासन के निर्देश पर जिले के सभी शासकीय और गैर शासकीय ब्लड बैंकों को दो माह पहले ऑनलाइन किया गया है। याने ब्लड बैंकों में अब मैनुअल एंट्री के अलावा ऑनलाइन एंट्री की जा रही हैं। दरअसल इस निर्णय को ब्लड बैंको में होने वाली दलाली पर रोक लगाने लिया गया है। पहले ब्लड बैंकों में मैनुअल एंट्री होती थी जिसमें पूरी जानकारी शासन के पास नहीं भेजी जाती थी। यहां पहुंचने वाले खून की यूनिट का बाहर से ही सौदा हो जाता था। ऐसे में प्रदेश सरकार द्वारा ब्लड बैंकों की मनमानी पर लगाम कसने कड़ा नियम लागू किया गया है। लेकिन इसके बाद भी मरीजों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। ऑनलाइन एंट्री करने की फेर में अब ब्लड बैंक के बाहर खून संबंधी सूचना बोर्ड नहीं लगाये जाते। जिससे ग्रामीण क्षेत्र से आये मरीजों की परेशानी बढ़ रही है। गौरतलब है कि ब्लड बैंक में ज्यादातर ग्रामीण क्षेत्र के मरीज पहुंचते हैं। उन्हें ऑनलाइन संबंधी जानकारी नहीं रहती। लिहाजा वे ब्लड बैंक के ईर्द गिर्द चक्कर काटते हुए देखे जा सकते हैं। वहीं ब्लड बैंक में खून की उपलब्धता संबंधित जानकारी देने में यहां के कर्मचारी भी आनाकानी करते हैं। इस तरह ऑनलाइन एंट्री के बाद भी मरीजों की परेशानी में सुधार नहीं हुई बल्कि उनकी समस्या और बढ़ गई है। ऑनलाइन एंट्री के जरिये ब्लड बैंक में पहुंची सभी तरह की खून की सूचना को फीड करना होता है। ऐसे में यहां से ब्लैक करने वालों का काम पूरी तरह प्रभावित हो रहा है। यही वजह है कि यहांअब खून के दलालों की सक्रियता भी कम हो गई है। हालांकि सूचना के अभाव में मरीजों को परेशान होते देखा जा रहा है।यदि आप भी ब्लड बैंक में खून की उपलब्धता की जानकारी लेना चाहते हैं तो ब्लड बैंक डॉट एनएचपी डॉट जीओवी डॉट इन पर विजीट कर सकते हैं। यहां आपको रायगढ़ जिले के सभी पंजीकृत ब्लड बैंकों के बारे में जानकारी मिलने के साथ खून की उपलब्धता के बारे में भी सूचना मिल जाएगी।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 November 2016

छत्तीसगढ़ में नोट मिलते ही लोग हुए खुश

  रायपुर में  बड़े नोट बंद होने के बाद गुरुवार सुबह से बैंकों और पोस्ट ऑफिस में इन्हें बदलने का काम शुरू हो गया। अपने पुराने नोट बदलवानें के लिए लोग बैंकों के खुलने से पहले ही बाहर लाइन लगाकर खड़े रहे। जैसे ही बैंक खुली और लोगों ने अपने नोट बदले तो उनकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा। इस दौरान कई लोगों का कहना था कि सरकार के इस फैसलें से कुछ परेशानी तो हुई, लेकिन यह हमारे देशहित में है। भिलाई के वैशाली नगर- यूको बैंक, सेक्टर-1 में एसबीआई बैंक, चार हजार रुपए ही दिए जा रहे हैं। यहां दो हजार रुपए के नोट मिलने लगा है। जांजगीर में बैंकों के बाहर नोट बदलने के लिए लंबी भीड़ लगी है, लोग मशक्कत कर रहे हैं। अंबिकापुर में बैंक में अधिकारियों के पहुचते ही ग्राहकों में अफरा-तफरी मच गई। मौके पर पुलिस व्यवस्था की गई है। बैंक के अंदर लोगों को पांच से दस की संख्या में प्रवेश दिया जा रहा है। इस व्यवस्था के संचालन से बैंक उपभोक्ताओं को दिक्कत का सामना भी करना पड़ रहा है। कोरबा, रायगढ़ और जशपुर में सहित प्रदेश के सभी नगरों में बैंकों में लोगों की भीड़ लगी है। सरकार ने पहले ही बता दिया है कि एक दिन में केवल 4000 रुपए के नोट ही बदले जाएंगे।बैंक जाने से पहले अपनी पासबुक और पहचान पत्र जैसे आधार कार्ड, पैन कार्ड, राशन कार्ड या फिर वोटर आईडी कार्ड ले जाना ना भूलें।अगर कोई इससे ज्‍यादा रकम को बैंक में जमा करवाना चाहता है तो उसकी कोई सीमा नहीं है।आज से ही बैंक से आम जनता एक दिन में 10 हजार रुपए तक निकाल सकेगी।इसके अलावा बैंक में पुराने नोट देकर नए नोट लेने के लिए एक फॉर्म भरना होगा।बैंक में ज्‍यादा भीड़ होने पर पैसे जमा करने के लिए आप बैंक में लगी कैश डिपॉजीट मशीन का उपयोग कर सकते हैं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 November 2016

रायगढ़ में एम्बुलेंस नहीं

रायगढ़ जिले में फिर मानवता शर्मसार हुई। समय पर एंबुलेस नहीं मिलने से 3 किलोमीटर तक परिजन शव को ढोने मजबूर हुए। इस दौरान एक पिकअप चालक ने सहृदयता दिखाई और शव को घर तक छोड़ा।घरघोड़ा में रिक्शा में शव लेकर आने का मामला अभी थमा भी नहीं है कि तमनार में फिर मानवता शर्मसार हो गई। मिली जानकारी के अनुसार आमगांव पंचायत के जांजगीर निवासी सुखाउ भुईहर 52 वर्ष को बुधवार दोपहर बुखार और कमजोरी की शिकायत के बाद तमनार सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती किया गया था । इसकी गुरुवार दोपहर लगभग 11 बजे मौत हो गई। परिजनों के अनुसार इसके बाद उन्होंने स्वास्थ्य केंद्र के डॉक्टर से एंबुलेंस के लिए निवेदन किया। जिस पर ड्यूटी डॉक्टर ने एंबुलेंस सेवा को फोन पर इसकी जानकारी दी। इसके बाद भी साढ़े चार घंटे तक एंबुलेंस के नहीं पहुंचने से मृतक सुखाउ के परिजन कंधे पर शव लेकर 4 किलोमीटर दूर गृह ग्राम की ओर चल दिए। वहीं तीन किलोमीटर का रास्ता तय करने के बाद एक पिकअप चालक ने सहृदयता दिखाई और शव को घर तक पहुंचाने में परिजनों की मदद की।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 November 2016

अपनी सुरक्षा को लेकर एकजुट हों पत्रकार

सोनी को किशोरी मोहन त्रिपाठी सम्मान रायपुर के पत्रकार एवं पत्रिका के स्टेट ब्यूरो प्रमुख राजकुमार सोनी को किशोरी मोहन त्रिपाठी सम्मान से सम्मानित किया गया। रायगढ़ में सक्रिय पत्रकार संघ सहित देशभर के पत्रकार संगठनों की ओर से छत्तीसगढ़ में पत्रकारों की सुरक्षा को लेकर आहुत की गई एक कार्यशाला में उन्हें यह सम्मान पर्यावरण के नोबल प्राइज विजेता रमेश अग्रवाल, देश के जाने-माने साहित्यकार गिरीश पंकज, वरिष्ठ पत्रकार शंकर पाण्डे, सुभाष त्रिपाठी,राधा वल्लभ शारदा, गुजरात की प्रसिद्ध पत्रकार शहनाज मलक ने प्रदान किया।  धारधार लेखनी और मानवीय सरोकार से जुड़ी रिपोर्टिग की वजह से राजकुमार  सोनी को हाल के दिनों में ही पीयूसीएल की ओर से दिए जाने वाले देश के सबसे महत्वपूर्ण पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया था। श्री सोनी इससे पहले केपी नारायणन और उदयन शर्मा बाजपेयी बाजपेयी पुरस्कार भी हासिल कर चुके हैं। थिएटर में लंबे समय तक सक्रिय रहे श्री सोनी अखिल भारतीय स्तर के कई पुरस्कार जीत चुके हैं। पत्रकारिता में उल्लेखनीय कामों की वजह से उन्हें एक फैलोशिप भी मिल चुकी हैं। इडियन फेडरेशन अॉफ मीडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष राधावल्लभ शारदा ने कहा कि पिछले दो वर्षों से पत्रकार सुरक्षा कानून की मांग  फेडरेशन द्वारा की जा रही है । इसके लिये उन्होने अभी तक सत्रह हजार किलोमीटर की यात्रा कर पत्रकारों की  एकता पर बल दिया है । पत्रकार सुरक्षा कानून की मांग  राष्ट्रीय एवं प्रादेशिक स्तर के सभी पत्रकार संगठनों एक साथ उठानी चाहिये । मध्य प्रदेश मे 2 अक्टूबर 2016  गॉधी जयंती पर इस संबंध मे एकदिवसीय धरना प्रदर्शन किया जा रहा है , छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर मे भी 21  एवं 22 अक्टूबर को दोदिवसीय राष्ट्रीय अधि़वेशन पत्रकारों की समुचित सुरक्षा पर आयोजित होगा । वरिष्ठ पत्रकार शंकर पाण्डेय व गिरीश पंकज ने पत्रकार सुरक्षा कानून लागू करने की मांग  को जायज ठहराते हुए अपने अपने अनुभव बाटे व इसे यथाशीघ्र क्रियाशील करने पर जोर डाला ।                      छत्तीसगढ़ सक्रिय पत्रकार संघ के बैनर तले स्व.पंडित किशोरी मोहन त्रिपाठी व् स्व.जयंत श्रीवास्तव के स्मृति में पत्रकार सम्मेलन एवम् सम्मान समारोह का आयोजन किया गया ।जंहा छत्तीसगढ़ के आधा दर्जन पत्रकार संगठनों के पदाधिकारी सदस्यों के अलावा भारत के हर राज्यो के पत्रकारो ने शिरकत की  ।कार्यक्रम के मुख्य एवम् विशिष्ठ अतिथि  राधावल्लभ शारदा (राष्ट्रीय अध्यक) इंडियन फेडरेशन अॉफ मीडिया , शंकर पाण्डे वरिष्ठ पत्रकार , गिरीश पंकज वरिष्ठ पत्रकार एवम् साहित्यकार , सुभाष त्रिपाठी (संपादक,सांध्य दैनिक अ बयार) , राज गोस्वामी (प्रदेश महासचिव ,छत्तीसगढ़ सकिय पत्रकार संघ ) , रमेश अग्रवाल सामाजिक कार्यकर्ता (जनचेतना मंच) गंगेश कुमार द्विवेदी उपाध्यक्ष, छत्तीसगढ़ सकिय पत्रकार संघ,प्रेम गुप्ता वरिष्ठ पत्रकार, शहनाज मलिक वरिष्ठ पत्रकार गुजरात अतिथी के रूप मे मौजूद रहे। जिसके पश्चात मंचासीन अतिथियों ने कार्यक्रम में उपस्थित पत्रकार एवम् सामाजिक कार्यकर्ताओं से पत्रकारो पे हो रहे  प्रताड़ना एवम् उनकी समस्याओं पर अपने विचार साझा किये । साथ ही उत्कृष्ठ पत्रकारिता एवम् निस्वार्थ सामाजिक गतिविधियों में  हिस्सा लेने वाले सामजिक कार्यकर्ताओ का सम्मान किया गया । बस्तर मे पुलिसिया अत्याचार से प्रताड़ित समारू नाग की पत्नी को छत्तीसगढ़ सक्रीय पत्रकार संघ ने इक्कीस हजार रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान की  ।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 September 2016

chakrdhar samaroh

    चक्रधर समारोह के चयन समिति की अध्यक्ष जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी  चंदन संजय त्रिपाठी एवं अपर कलेक्टर  प्रियंका ऋषि महोबिया की विशेष मौजूदगी में आज यहां कलेक्टोरेट सभाकक्ष में 32 वें चक्रधर समारोह के गरिमामय आयोजन के लिए कलाकारों के चयन समिति की बैठक आयोजित की गई।      बैठक में प्रथम, द्वितीय, तृतीय एवं चतुर्थ चक्र के कार्यक्रमों पर सहमति बनी। चक्रधर समारोह का शुभारंभ 5 सितम्बर एवं समापन 14 सितम्बर को होगा। जिसमें प्रथम दिन 5 सितम्बर को शुभारंभ अवसर पर गणेश वंदना विभाष पाठक एवं ईशान दुबे द्वारा किया जाएगा। श्री यशुदास द्वारा शास्त्रीय गायन किया जाएगा। 6 सितम्बर को प्रथम चक्र में सुश्री बासंती वैष्णव रायगढ़ घराना, द्वितीय चक्र में सुचित्रा हारमोनकर द्वारा कथक एवं तृतीय चक्र में मोहम्मद अमान (क्लासिकल सिंगर) (हिन्दुस्तानी शास्त्रीय गायन) तथा चतुर्थ चक्र में नृत्यथि (भरतनाट्यम/कुचीपुड़ी) की प्रस्तुति होगी।    7 सितम्बर को प्रथम चक्र में सुश्री आंचल पांडे द्वारा कथक, द्वितीय चक्र में अनुराधा पाल द्वारा स्त्री शक्ति तबला, तृतीय चक्र में सुश्री विधालाल एवं अभिमन्यु का कथक एवं चतुर्थ चक्र में पद्मश्री श्रीमती ममता चन्द्राकर द्वारा छत्तीसगढ़ लोक गायन, 8 सितम्बर को प्रथम चक्र में सुश्री दीप्ति मिश्रा का ओडिसी, द्वितीय चक्र में सुश्री प्राची होता तथा चतुर्थ चक्र में निजामी बंधु द्वारा कव्वाली, 9 सितम्बर को प्रथम चक्र में स्मृति मोहंती एवं तब्बू परवीन द्वारा ओडिसी, द्वितीय चक्र में शुद्धशील चटर्जी द्वारा संतुर एवं तृतीय चक्र में नाटक-राम की शक्ति पूजा, 10 सितम्बर को द्वितीय चक्र में अंकिता राउत एवं ग्रुप द्वारा ओडिसी, तृतीय चक्र में तपस्विनी नव साधना नितिशा नंदा एवं ग्रुप तथा चतुर्थ चक्र में भूपेन्द्र एवं मिताली का गजल, 11 सितम्बर को प्रथम चक्र में सुरभि गुरू का गायन, द्वितीय चक्र में श्री कार्तिक अय्यर का वायलिन फ्यूजन, तृतीय चक्र में शर्मिला शर्मा का कथक एवं चतुर्थ चक्र में मामे खां (राजस्थानी)लोक गीत एवं लोक नृत्य, 12 सितम्बर को प्रथम चक्र में सुश्री चित्रांशी पणिकर का कथक, द्वितीय चक्र में कालीनाथ मिश्रा का तबला एवं तृतीय चक्र में कवि सम्मेलन की प्रस्तुति होगी। इसी तरह 13 सितम्बर को द्वितीय चक्र में संदीप मलिक कोलकाता का कथक, तृतीय चक्र में सुलेमान का बांसुरी वादन एवं चतुर्थ चक्र में नितिन दुबे की प्रस्तुति होगी। चक्रधर समारोह के अंतिम दिवस 14 सितम्बर को समापन कार्यक्रम में यास्मिन सिंह का कथक एवं ऋचा शर्मा का सूफी संगीत की प्रस्तुति होगी।      इस अवसर पर सुश्री उर्वशी देवी सिंह, कुमार देवेन्द्र प्रताप सिंह, पं. सुनील वैष्णव, तन्मय दास गुप्ता, देवेश शर्मा, वासंती वैष्णव, जवाहर नायक, प्राचार्य राजेश डेनियल, प्रो.अम्बिका वर्मा, गिरीश कुर्रे, डिप्टी कलेक्टर श्री बी.आर.ठाकुर, नटवर सिंघानिया, मीडिया प्रतिनिधि युगल तिवारी, अविनाश पाठक उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 August 2016

chattisgadh

       छत्तीसगढ़ में  जंगली जानवरों का उत्पात थमने का नाम नहीं ले रहा। अंबिकापुर में एक वन भैंसे ने महिला पर हमला कर दिया, तो रायगढ़ और जशपुर में हाथियों ने मकानों और फसलों को नुकसान पहुंचाया।   अंबिकापुर के प्रतापपुर नाके के पास एक वनभैंसा घुस आया, उसने एक महिला को हमला कर घायल कर दिया और एक मवेशी को मारा दिया। वनभैंसे के डर से परिवार घर में कैद हो गया। घटना के बाद से इलाके के लोगों में दहशत फैल गई है।   उधर रायगढ़ के बरमकेला से सटे ग्राम चांटीपाली में हाथियों ने उत्पात मचाया और वहां एक घर को तोडकर अंदर घुस गए और अनाज को भी खा लिया। घर के अंदर से एक व्यक्ति अपनी जान बचाकर भाग निकला। जशपुर में कांसाबेल के बढ़नी झरिया में हाथियों ने एक घर को ध्वस्त कर दिया।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 August 2016

amit jogi mahanadi

  महानदी जल बंटवारे का मामला    रायगढ़ में  महानदी के जल बंटवारे को लेकर छत्तीसगढ़ आ रहे ओड़िशा के बीजेडी नेताओं प्रतिनिधि मंडल का विरोध करने छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस (जोगी) नेता अमित जोगी अपने कार्यकर्ताओं के साथ धरने पर बैठ गए। शहर के टीवी टॉवर मेडिकल कॉलेज मार्ग पर उन्होंने काले झंड़े लेकर विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया और वापस जाओ के नारे लगाए। इस दौरान पुलिस ने अमित जोगी समेत सभी कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया। उधर शहर में जगह-जगह छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया।   अमित जोगी ने सोमवार को कहा था कि ओड़िशा का प्रतिनिधि मंडल बीजू जनता दल के प्रसन्ना आचार्य के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ आ रहा है। यह नेता और प्रतिनिधि मंडल में शामिल नेता वे हैं जिन्होंने पिछले 15 दिनों से ओड़िशा में छत्तीसगढ़ की परियोजनाओं के खिलाफ जमकर आंदोलन और प्रदर्शन किया।   4 अगस्त को ट्रेन रोक कर छत्तीसगढ़ के खिलाफ प्रदर्शन किया। ऐसे लोगों को राज्य सरकार राज्य अतिथि का दर्जा देकर स्वागत कर रही है और अपने प्रोजेक्ट दिखा रही है। जोगी ने बताया कि केंद्र सरकार के हस्तक्षेप के बाद इस विवाद को सुलझाने के लिए दोनों राज्यों की संयुक्त टीम बन गई है। ओड़िशा के जनप्रतिनिधि अपनी बात संयुक्त टीम के सामने रखें, छत्तीसगढ़ का प्रोजेक्ट देखने आने की क्या जरूरत है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 August 2016

elephant

      रायगढ़ के  टारपाली के जंगल में दिन बिताने के बाद अब रात को भटकर कोरियादादर काजू बाड़ी एरिया में हाथियों ने डेरा जमा लिया है। बताया जा रहा है कि शनिवार रात हाथी कोरियादादर के करीब आग गया था। ऐसे में देर रात को डीपापारावासी जान बचाकर गांव की ओर भागकर अपनी जान बचाया। वहीं गांव के करीब हाथी आने से लोग दहशत में है। शहर के करीब बसे गांव के आसपास इन दिनों हाथियों ने अपना डेरा जमा लिया है। बीते एक सप्ताह से हाथी का दल एक से दूसरे गांव की ओर पलायन कर रहे है। पहले जुर्डा गांव में डेरा जमाने के बाद टारपाली उसके बाद अब कोरियादादर के जंगल में डेरा जमा लिया है।बताया जा रहा है कि बीती रात 9 हाथी का दल टारपाली के जंगल से निकलकर शाम को सड़क पार कर बोईरदादर जंगल की ओर पलायन कर रहे थे। लेकिन देर रात को वापस कोरियादादर की ओर पलायन कर गए। जहां वह काजूबाडी से कुछ ही दूर पर स्थित डीपापारा में देर रात करीब 2 बजे वहां के कुछ वाशिदों के हाथी की भनक पड़ने पर जान बचाकर गांव की ओर पलायन कर अपनी जान बचाई। वहीं सुबह होते ही वह कोसाबाड़ी के पीछे डेरा जमा लिया है। ऐसे में वन विभाग के कर्मचारी हाथियों पर नजर रखे हुए है कि वो कही गांव की ओर पलायन ना कर सके। वहीं वन कर्मचारी उन हाथियों के झुण्ड को जंगल की ओर भगाने की कोशिश कर रहे है। बताया जा रहा है कि नौ हाथियों का दल कोरियादादर व टारपाली क्षेत्र में भ्रमण कर रहे है।वहीं उस क्षेत्र की माने तो कुछ और हाथी का दल ओडिशा की ओर से जामगांव के जंगल की ओर से आने की जानकारी मिली है। वन विभाग के कर्मचारी का कहना है कि जब तक उनके उस क्षेत्र में होने की पुष्टि ना हो तबतक उनके होने की बात को सही नहीं कहा जा सकता है। इलाके के रेंजर छेदीलाल मारूतकर ने बताया कि कोरियादादर के जंगल में हाथियों ने डेरा जमाया हुआ है। वनकर्मियों को क्षेत्र में नजर रखने को कहा गया है। ताकि हाथी गांव की ओर पलायन ना कर सके।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 June 2016

Video
Advertisement
Advertisement
x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved ©2023 MadhyaBharat News.