Since: 23-09-2009

  Latest News :
सीएम योगी के हेलीकाप्टर की इमर्जेन्सी लैंडिंग .   त्रिपुरा विधानसभा उपचुनाव में बीजेपी को तीन सीट.   महाराष्ट्र में सियासी बवाल जारी है.   मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का दर्द.   बहुजन समाज पार्टी करेगी मुर्म का समर्थन .   नहीं थम रहा महाराष्ट्र का सियासी घमासान .   सीएम करेंगे खिलाड़ियों का सम्मान .   शिक्षा के रास्ते मिलेगी कामयाबी की मंजिल.   रणजी टीम को होगा भव्य स्वागत .   पंचायत चुनाव के लिए पहले चरण का मतदान हुआ.   बैतूल में सड़क हादसा पांच लोग घायल.   कोरोना के मिले 65 संक्रमित.   नहरपारा सड़क के चौड़ीकरण से क्षेत्र के लोगों में ख़ुशी .   छात्रा को एडमीशन न देने का मामला तूल पकड़ा .   छत्‍तीसगढ़ में होगी अच्छी बारिश .   10 कांग्रेस पार्षदों ने अविश्वास प्रस्ताव लाया .   सीएम भूपेश बघेल का महाराष्ट्र को लेकर बयान.   राहुल को देखने लगी भीड़ .  

रायपुर News


नहरपारा सड़क के चौड़ीकरण से क्षेत्र के लोगों में ख़ुशी

सड़क के चौड़ीकरण से  ट्रैफिक जाम की समस्या से निजात  रायपुर में नहरपारा सड़क के चौड़ीकरण के लिए नहरपारा विकास समिति के अध्यक्ष व पूर्व पार्षद रमेश आहूजा समेत पदाधिकारी 15 वर्ष से संघर्ष करते आ रहे थे। रायपुर नगर निगम की महापौर परिषद ने पिछले दिनों बैठक में नहरपारा सड़क चौड़ीकरण की जद में जिन प्रभावित छह परिवारों के मकान, दुकान आ रहे हैं, उन्हें मुआवजा के तौर पर शासन की ओर से स्वीकृत दो करोड़ रुपये देने का फैसला लिया। शहर की नहरपारा सड़क का चौड़ीकरण करने का रास्ता 15 वर्ष बाद साफ होने से राजधानी के 50 हजार लोगों को राहत मिलेगी। चौड़ीकरण की जद में आ रहे छह प्रभावितों को दो करोड़ रुपये का मुआवजा दिया जाना है। इसके लिए नगर निगम प्रशासन ने नगरीय निकाय मंत्री डा. शिव कुमार डहरिया को पत्र लिखा है, ताकि जल्द से जल्द मुआवजा देकर काम शुरू किया जा सके। संभावना है कि एक महीने के भीतर चौड़ीकरण का काम शुरू कर दिया जाएगा। सड़क के चौड़ीकरण होने  जनता को भारी राहत मिलेगी।  ट्रैफिक के साथ अन्य सुविधाएँ भी बढ़ेंगी।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 June 2022

छत्‍तीसगढ़  में होगी अच्छी बारिश

किसानो को हो सकता है फायदा  छत्‍तीसगढ़  में  मानसून आने के बाद भी उस तरह बारिश अब तक नहीं हुई है।  लेकिन अगले माह अच्छी बारिश होगी।  शासन के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा बनाए गए राज्य स्तरीय नियंत्रण कक्ष द्वारा संकलित जानकारी के मुताबिक एक से 24 तक राज्य में 87.9 मिमी. औसत वर्षा दर्ज की जा चुकी है। राज्य के विभिन्न जिलों में रिकार्ड आंकड़ों के मुताबिक गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिले में सर्वाधिक 181.1 मिमी और सरगुजा जिले में सबसे कम 47.8 मिमी. औसत वर्षा दर्ज की गई है। राज्य स्तरीय बाढ़ नियंत्रण कक्ष से प्राप्त जानकारी के अनुसार रायपुर में 57.4 मिमी. वर्षा दर्ज की गई। विशेषज्ञों के मुताबिक अगले महीने अच्छी बारिश होने की उम्मीद है। बारिश को लेकर किसानों ने भी बुवाई शुरू कर दी है।  उम्मीद जताई जा रही है की अगले माह बारिश ज्यादा होगी।  जिससे किसानों को फसल के अनुरूप फायदा होगा।   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 June 2022

सीएम भूपेश बघेल का महाराष्ट्र को लेकर बयान

  भाजपा के लोग विपक्षी दलों को बर्दाश्त नहीं कर पाते    महाराष्ट्र में सियासी भूचाल जारी है।  जिसको लेकर  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने महाराष्‍ट्र की वर्तमान स्थिति, अग्निपथ योजना सहित अन्‍य मुद्दों को लेकर केंद्र की मोदी सरकार और भाजपा  को आड़े हाथों लिया है ।भेंट-मुलाकात कार्यक्रम के तहत जशपुर रवाना होने से पहले  सीएम बघेल ने महाराष्‍ट्र की वर्तमान स्थिति पर कहा, भाजपा के लोग विपक्षी दलों को बर्दाश्त नहीं कर पाते। ये रौंदकर, कुचलकर समाप्त कर देना चाहते हैं। भारत एक लोकतांत्रिक देश है और यहां इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। आने वाले दिनों में भाजपा को इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा। बघेल ने  कहा, महाराष्‍ट्र की जनता सब देख रही है। आने वाले चुनाव में भारतीय जनता पार्टी पूरी तरफ से साफ होने वाली है।  अब बीजेपी तोड़फोड़ में लगी हुई है। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 June 2022

राष्ट्रपति पद को लेकर सियासत

  सीएम बघेल के बयान से सियासत  राष्ट्रपति पद को लेकर सियासी हलचलें तेज हो गई हैं। एनडीए ने राष्ट्रपति पद के लिए ओडिशा की आदिवासी नेत्री और पूर्व राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू को उम्मीदवार बनाया है। भाजपा संसदीय बोर्ड की बैठक में मुर्मू के नाम को फाइनल करने के बाद यह चर्चा शुरू हुई कि छत्तीसगढ़ की राज्यपाल अनुसुईया उइके भी प्रबल दावेदार थीं। उइके को उम्मीदवार नहीं बनाए जाने पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के दिए बयान के बाद प्रदेश में राजनीति का माहौल बन गया है।  नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाने में किसी की उपेक्षा नहीं की गई। राष्ट्रीय नेतृत्व ने आदिवासी वर्ग से राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार चुनने का फैसला किया। इसके बाद स्वाभाविक रूप से आदिवासी वर्ग के राज्यपाल, केंद्रीय मंत्रियों और सामाजिक क्षेत्र में काम करने वालों के नाम पर विचार किया जाता है। भाजपा संसदीय बोर्ड ने मुर्मू के नाम को राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के रूप में घोषित किया। इसे किसी की उपेक्षा से जोड़कर देखना ठीक नहीं है। बता दें कि दिल्ली से लौटे मुख्यमंत्री बघेल ने कहा था कि उइकेकांग्रेस की पृष्ठभूमि से हैं इसलिए उन्हें राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार नहीं बनाया गया।  उधर सवाल कांग्रेस पर भी भाजपा ने उठाये हैं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 June 2022

अवैध निर्माण को लेकर बीजेपी का घेराव

  भाजपा पार्षदों ने की जमकर नारेबाजी रायपुर के कई स्थानों  में अवैध निर्माण, स्मार्ट पोल के नाम पर पैसे की बर्बादी और अमृत मिशन के काम में लेटलतीफी के विरोध में  नेता प्रतिपक्ष मीनल चौबे के नेत्तृव में भाजपा पार्षद दल ने नगर निगम कार्यालय का घेराव कर प्रदर्शन किया।  इस मौके पर  भाजपा पार्षदों ने महापौर के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।  प्रदर्शन में भाजपा जिला अध्यक्ष श्रीचंद सुंदरानी समेत अन्य नेता भी मौजूद थे। प्रदर्शन के बाद निगम आयुक्त मयंक चतुर्वेदी को ज्ञापन सौंपकर समस्याओं के निराकरण की मांग की गई। आयुक्त ने आश्वस्त किया कि सभी शिकायतों को दूर कर लिया जायेगा।इससे पहले भाजपा पार्षदों ने बैठक कर वार्डों में बिना पार्षद की जानकारी के हो रहे अवैध निर्माण पर चिंता जताते हुए कांग्रेस पार्षदों पर गंभीर आरोप लगाया था। बैठक में शकंरनगर इलाके में तीन मंजिला कांप्लेक्स निर्माण में पार्किंग व्यवस्था नहीं रखने, रहवासी इलाके में कार्मशियल कांप्लेक्स के निर्माण पर एतराज जताया।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 June 2022

तीन भाइयों की खौफनाक हरकत

  हत्या के मामले में तीन गिरफ्तार   रायपुर में तीन भाइयों की खौफनाक हरकत सामने आई है।  पुलिस ने आधी रात डीडी नगर में हुई हत्या मामले में पुलिस ने तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। बुधवार की रात दो गुटों के बीच हो रहे झगड़े को शांत कराने पहुंचे  युवक को एक गुट ने डंडे से पीट-पीटकर मार डाला ।  मृतक राजा ठाकुर चंगोराभाठा का रहने वाला था। प्रारंभिक जानकारी में उसके रिकार्डेड बदमाश होने की बात सामने आ रही है। पुलिस ने बताया कि डीडी नगर के झंडा चौक में दो गुटों के बीच मारपीट हो रही थी। तभी राजा ठाकुर ने इन्हें अलग करने का प्रयास किया। इस बात को लेकर एक गुट ने इसकी हत्या कर दी। आरोपित रामअवतार साहू, रामू साहू और किशोर साहू हैं। ये तीनों सगे भाई हैं। इस घटना को लेकर ये भी जानकारी आ रही है कि हत्या में तीनों आरोपितों के साथ उनके पिता का भी हाथ है। आरोपितों का पिता पहले भी हत्या के प्रयास के आरोप में जेल जा चुका है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 June 2022

विधानसभा मानसून 20 जुलाई से

  मानसून सत्र को लेकर अधिसूचना जारी    छत्तीसगढ़ में विधानसभा मानसून को लेकर अधिसूचना जारी कर दी गई है। आपको बता दें  20 जुलाई से छत्तीसगढ़ विधानसभा का मानसून सत्र शुरू होगा।   27 जुलाई तक 6 बैठकें होगी।  जारी अधिसूचना के अनुसार मानसून सत्र 20 जुलाई से शुरू होगा जोकि 27 जुलाई तक चलेगी। इस मानसून सत्र में कुल 6 बैठके होंगी। छत्तीसगढ़ विधानसभा सचिवालय ने अधिसूचना जारी कर दी है। मानसून सत्र में कई मुद्दों को लेकर विपक्ष के घेरने की उम्मीद है।  वहीँ सरकार कई योजनों को अमली जामा पहनाएंगी। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 June 2022

माओवादियों के हमले में सीआरपीएफ बल के 3 जवान बलिदान

  हमले में कई जवान घायल  उपचार जारी      छत्तीसगढ़ की सीमा से सटे ओडिशा के नुआपड़ा जिले के बोडेन थानाक्षेत्र अंतर्गत सहजपानी गांव के पास माओवादियों के हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के तीन जवान बलिदान हो गए। इस हमले में कई जवान घायल हुए हैं जिनका उपचार चल रहा है। इनमें से एक से दो जवानों की हालत गंभीर बताई जा रही है। बलिदान हुए जवानों में एएसआई शिशुपाल सिंह, एएसआई शिवलाल और कांस्टेबल धर्मेंद्र सिंह शामिल हैं। एएसआई शिशुपाल सिंह उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ जिले के ग्राम लालगढ़ी अगराना, एएसआई शिवलाल हरियाणा के महेन्द्रगढ़ जिले के ग्राम पैगा और कांस्टेबल धर्मेंद्र बिहार के रोहतास जिले के ग्राम सराया के निवासी थे। तीनों जवान सीआरपीएफ की जी-19 बटालियन की रोड ओपनिंग पार्टी का हिस्सा थे। लंबे समय बाद माओवादियों ने जिले में किसी बड़ी घटना को अंजाम दिया है। जवान भैंसादानी कैम्प से नए खुले पाटधरा कैम्प जा रहे थे। इस दौरान घात लगाए बैठे माओवादियों ने जवानों पर अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। माओवादियों ने ग्रेनेड लांचर से हमला किया था। इससे पहले की जवान संभल पाते एएसआई शिशुपाल सिंह, एएसआई शिवलाल व कांस्टेबल धर्मेंद्र फायरिंग की चपेट में आ गए। घटनास्थल पर ही तीनों वीरगति को प्राप्त हो गए।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 June 2022

सीएम भूपेश बघेल का केंद्र पर निशाना

  फोन टैपिंग सरकार अस्थिर का आरोप  छत्तीसगढ़ में फोन टैपिंग पर सियासत जारी है। कांग्रेस नेताओं की फोन टैपिंग और छत्तीसगढ़ सरकार को अस्थिर के आरोपों की आंच दिल्ली से रायपुर पहुंच गई है। दिल्ली में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने केंद्र पर उनकी सरकार को अस्थिर करने का प्रयास करने का आरोप लगाया है। उन्होंने दावा किया कि राज्य में अवैध फोन टैपिंग की जा रही है। इस पर पूर्व सीएम डा. रमन सिंह ने कहा कि इनकी फोन टैपिंग का कोई कारण ही नहीं है। बघेल शंका में इस तरह का बयान दे रहे हैं। सीएम बघेल ने आरोप लगाया है कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी के साथ खड़े लोगों को निशाना बनाया जा रहा है। उन्होंने राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के भाई के खिलाफ सीबीआइ छापे का हवाला देते हुए कहा कि केंद्र गैर-भाजपा दलों द्वारा संचालित राज्य सरकारों को अस्थिर करने की कोशिश कर रहा है। बघेल ने यह बयान ऐसे समय में आया है, जब महाराष्ट्र का सत्तारूढ़ गठबंधन महाविकास अघाड़ी अस्तित्व की लड़ाई लड़ रहा है। उधर महाराष्ट्र में सियासत में हलचल मची हुई है।  सरकार को लेकर अटकलें लगनी शुरू हो गई हैं।  अब कांग्रेस ने भी फोन टैपिंग का आरोप लगाया है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 June 2022

रायपुर लोकसभा सांसद का कांग्रेस पर आरोप

   सुनील कुमार सोनी ने कहा कांग्रेस भ्रम फैला रही    सेना और केंद्र सरकार के द्वारा अग्निपथ योजना में स्पष्टीकरण के बाद भी सियासत जारी है।  अग्निपथ योजना के विरोध में भारत बंद का आह्वान किया गया।   वहीं रायपुर लोकसभा सांसद सुनील कुमार सोनी ने संसदीय कार्यालय में नए भारत की अग्निपथ योजना को लेकर पत्रकारों से चर्चा की। उन्होंने कहा  कांग्रेस  भ्रम फैलाने का काम कर रही । उन्होंने कहा कि कांग्रेस का कृत्य अत्यंत निंदनीय है। कांग्रेस नौजवनों को गुमराह करना चाहती है, लेकिन पीएम मोदी की सरकार देश में युवाओं की फौज खड़ी करेगी। देश में वर्षों तक कांग्रेस की सरकार रही है, लेकिन युवाओं को राष्‍ट्रभक्ति और अनुशासन देने की ऐसी कोई योजना कांग्रेस नहीं ला सकी। सोनी ने कहा यह एक महत्वाकांक्षी योजना है।  जिसमें युवाओं को फौज के भीतर भागीदार बनने का सुनहरा अवसर मिलेगा। उन्होंने कहा भारत शक्तिशाली बनेगा। जिसमे अग्निपथ योजना की महत्वपूर्ण भूमिका होगी।  योजना में 17 वर्ष 6 माह से 21 वर्ष तक युवाओं को शामिल किया गया है और कोविड के मद्देनजर 2 वर्षों की छूट भी दी जा रही है, जिससे 23 वर्ष तक की आयु के युवा इसमें शामिल हो सकेंगे और युवाओं की सहभागिता से ही देश का नवनिर्माण होगा। उन्होंने बताया कि अग्निपथ योजना में वार्षिक  राशि 4.67 लाख से 6.92 लाख प्राप्त होगी।  फौज में भर्ती युवाओं को अनेकों सुविधाएं प्राप्त होगी।  सुविधाओं के साथ-साथ प्रोत्साहन राशि तथा लगभग 48 लाख रूपये तक की बीमा सुविधा भी होगी। 4 वर्षों की सेवा उपरांत, अग्निवीरों को प्राप्त होने वाले लगभग 11.71 लाख रूपये भी करमुक्त होंगे। 4 साल के बाद  उन प्रशिक्षित  युवाओं में से 25 प्रतिशत युवाओं को मिलेट्री में जाने का एक सुनहरा अवसर मिलेगा और यदि नहीं जा पाते हैं तो एक मुश्त  11 लाख की राशि प्राप्त होगी।  उन्होंने कांग्रेस पर आरोप लगाया की कांग्रेस देश के युवाओं को भ्रमित कर रही है। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 June 2022

तीन दिन बाद मानसून पहुंचेगा

  मानसून आने से तापमान में गिरावट  छत्तीगढ़ में दक्षिण पश्चिम मानसून की सक्रियता बढ़ी है। मौसम विज्ञानियों की माने तो अगले तीन दिनों में प्रदेश के अन्य क्षेत्रों में मानसून पहुंच जाएगा। मानसून गुरुवार को दुर्ग पहुंचा। इसके साथ ही अधिकतम व न्यूनतम तापमान में गिरावट होने लगी है। दोपहर की तपिश से भी थोड़ी राहत मिली है। गर्मी से राहत मिलने से लोगों को ख़ुशी हुई।  बसना, बिलाईगढ़ में तीन सेंटीमीटर, दंतेवाड़ा में दो सेमी, मुंगेली, सरायपाली, सारंगढ़ में एक-एक सेमी और अन्य कुछ क्षेत्रों में हल्की वर्षा हुई। सबसे अधिक तापमान महासमुंद में 38.2 डिग्री सेल्सियस रहा। रायपुर का अधिकतम तापमान सामान्य से एक अधिक 36.4 डिसे रहा। मानसून के चालते कई क्षत्रों में बारिश के आसार हैं। जिससे लोगों को गर्मी से राहत मिलेगी।  लेकिन इस दौरान आद्रता बढ़ेगी।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 June 2022

किसानो के तंबू को प्रशासन ने बलपूर्वक उखाड़ा

  प्रशासन की इस कार्रवाई से किसानों में नाराजगी  नए रायपुर में किसान आंदोलन पिछले 166 दिनों से  चल रहा है। लेकिन अब आंदोलन में शुक्रवार को एक नई घटना हुई।   रायपुर विकास प्राधिकरण ने किसानों के तंबू को  उखाड़ दिया। आपको बता दें प्रशासन लगातार सख्ती बरत रहा है। आपको बताते चलें अप्रैल के अंतिम सप्ताह में एनआरडीए कार्यालय के सामने धरना दे रहे किसानों को जबरदस्ती हटा दिया गया था। प्रशासन ने किसानों का टेंट और तंबू जब्त भी कर लिया था। प्रशासन ने एक बार फिर उन्हें नए धरना स्थल से भी हटा दिया है। किसानों का सामान जब्त कर लिया गया है। जिसको लेकर किसानों में भारी रोष व्याप्त है। इसको लेकर आम आदमी पार्टी  के प्रदेश सचिव उत्तम जायसवाल ने प्रशासन के इस कृत्य की घोर निंदा की है। उत्तम जायसवाल ने कहा कि कांग्रेस की भूपेश सरकार का किसान विरोधी चेहरा बार-बार उजागर हो रहा है। किसान के लिए भूपेश सरकार का रवैया बहुत ही क्रूर और अपमानजनक है। किसान के बार-बार आग्रह के बाद भी उनकी सुध लेना तो दूर की बात सिर्फ उनको प्रताड़ित किया जा रहा है। आम आदमी पार्टी का कहना है की वो अन्याय के खिलाफ किसानों के साथ है। आप किसानों के साथ है।  प्रशासन की इस तरह मनमानी को बर्दाश्त नहीं किया जायेगा।  किसानो को उनका हक़  देना होगा।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 June 2022

पेट्रोल डीजल के लिए सीएम का केंद्र पर निशाना

  सीएम भूपेश बघेल ने कहा इससे महंगाई और बढ़ेगी पेट्रोल डीजल की कमी अब छत्तीसगढ़ तक पहुँच गई है।  हाल ही में देखा गया है की राजस्थान में भी पेट्रोल डीजल की कमी के चलते कई पेट्रोल पंप बंद कर दिए गए। अब छत्तीसगढ़ में भी पेट्रोल डीजल की किल्लत होने लगी है। जिसको  लेकर छत्‍तीसगढ़ के मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल ने इसके लिए केंद्र सरकार को जिम्‍मेदार ठहराया है। उन्होंने कहा कि इससे महंगाई और बढ़ेगी। इस समय खेती किसानी का सीजन है इसलिए किसानों को भी समस्या होगी। बघेल ने कहा कि उनसे चर्चा करके समस्या को समझने और उसके समाधान की दिशा में प्रयास किया जाएगा।  पेट्रोल डीजल की आपूर्ति में आ रही अपनी समस्याओं को लेकर एचपी पेट्रोल पंप के डीलर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से मुलाकात करेंगे।गौरतलब है कि छत्‍तीसगढ़ में हिंदुस्तान पेट्रोलियम कार्पोरेशन लिमिटेड यानी HPCL के आधे से अधिक पेट्रोल पंप इन दिनों ईंधन नहीं होने से बंद पड़े हैं।  कंपनी के डीलर पैसे एडवांस दे चुके हैं, उसके बाद भी सात दिन इंतजार करना पड़ रहा है। इसके चलते दूसरी कंपनियों के पेट्रोल पंपों पर दबाव बढ़ गया है।  एचपीसीएल के पेट्रोल पंपों में माह भर से आपूर्ति प्रभावित है। आपको बता दें की रूस यूक्रेन युद्ध के बीच पेट्रोल डीजल के दामों में वृद्धि हुई थी।  हालांकि रूस ने भारत को सस्ता पेट्रोल दिया।  लेकिन हाल ही में  खबर आई की रूस ने पेट्रोल डीजल के दाम बढ़ा दिए। भारत में पेट्रोल डीजल के लिए रूस की तेल कंपनियों से समझौता हुआ है।  लेकिन सभी कंपनियों के साथ ऐसा नहीं है।  और हाल ही में पेट्रोल डीजल को लेकर कई तेल कंपनियों ने दाम घटने से नाराजगी जाहिर की।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 June 2022

जुआं सट्टा खेलने वालों पर होगी सख्त कार्रवाई

चिटफंड कंपनी पर नकेल कसने की तैयारी  छत्तीसगढ़ पुलिस अब जुआं सट्टा खेलने वालों को बख्सने के मूड में नहीं दिख रही है। पुलिस महानिदेशक अशोक जुनेजा ने प्रदेशभर के पुलिस अधीक्षकों की घंटों बैठक ली। उन्होंने कहा  प्रदेश में जुआ, सट्टा और अवैध तरीके से बिक रही शराब पर अंकुश लगाएं।  चिटफंड कंपनियों के फरार संचालकों की गिरफ्तारी को लेकर भी गंभीरता बरतें। वीडियो कान्फ्रेसिंग के जरिए आयोजित इस बैठक में सभी रेंज पुलिस महानिरीक्षक और प्रदेश के सभी जिलों के पुलिस अधीक्षकों ने अपने-अपने जिले की कार्यप्रणाली से अवगत कराया। पुलिस महानिदेशक जुनेजा ने कहा सीएम  भूपेश बघेल की मंशानुरूप और शासन की प्राथमिकता सूची में सम्मिलित चिटफंड कंपनियों के संचालकों के विरूद्ध कार्रवाई को प्राथमिकता दें।उन्होंने चिटफंड कंपनियों के संचालकों के खिलाफ की जा रही कार्रवाई और निवेशकों की धन राशि वापसी के प्रकरणों की समीक्षा के दौरान प्रकरणों में तेजी से कार्रवाई करने के निर्देश दिए। चिटफंड कपनियां आम आदमी के पैसे को लेकर फरार हो जाती है।  कई बार देखा गया है की ये कम्पनियां पैसे लौटाते समय भी आनाकानी करती है।  लोग झांसे में आकर इन कंपनियों में पैसा लगाकर फंस जाते है। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 June 2022

कोरोना के बढ़ रहे हैं मामले

  58 कोरोना संक्रमण के मामले   छत्‍तीसगढ़ में कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी हुई है। 24 घंटे में 58 कोरोना संक्रमण के मामले सामने आए हैं। स्वास्थ्य विभाग की माने तो सर्वाधिक 19 संक्रमित रायपुर के हैं। दुर्ग में 10, राजनांदगांव में 6 , कोरबा में 4  समेत कई जिलों में मरीज मिले हैं।  पाजिटिविटी दर 1.18 प्रतिशत हो गया है। कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले को देखते हुए स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव ने लोगों से सावधानी बरतने की अपील की है। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ दिनों से संक्रमण के मामलों में इजाफा हुआ है।  पिछले सप्ताह की तुलना में प्रकरणों में 2.5 से तीन गुना बढ़ोतरी हुई है। अभी प्रदेश में संक्रमण की संख्या कम है लेकिन चौथी लहर की आंशकाओं को ध्यान में रखते हुए अत्याधिक सावधानी की आवश्यकता है। आपको  बता दें कि कोरोना के दोनों टीके लगभग सभी को लग चुके हैं।  जिसके चलते खतरा कम हुआ है।  लेकिन अभी भी सावधानी बरतने की जरूरत है। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 June 2022

नेशनल हेराल्ड में कांग्रेस का विरोध

  दिल्ली कार्यालय पर मारपीट का विरोध  नेशनल हेराल्ड मामले में कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी से ईडी की पूछताछ जारी है , वहीं कांग्रेस में इसका  विरोध लगातार किया जा रहा है। इसका विरोध रायपुर से लेकर दिल्ली तक किया जा रहा है।  प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम बुधवार सुबह दिल्ली पहुंचे और कांग्रेस मुख्यालय के प्रदर्शन में शामिल हुए। रायपुर में मंत्री शिव डहरिया ने राजीव भवन में पत्रकारवार्ता में कांग्रेस मुख्यालय में पुलिस के प्रवेश पर विरोध दर्ज कराया। अब कांग्रेस गुरुवार को केंद्र सरकार के खिलाफ ब्लाक स्तर पर प्रदर्शन करेगी। राष्ट्रपति को इसके विरोध में ज्ञापन सौंपा जाएगा। डहरिया ने कहा कि केंद्र सरकार तानाशाही पर उतर आई है। इनका चरित्र आलोकतांत्रिक तो था ही, अब यह क्रूर भी हो चुके हैं। एआइसीसी दफ्तर के अंदर दिल्ली पुलिस ने घुसकर लाठीचार्ज किया। कांग्रेस के वरिष्ठ पदाधिकारियों को भी एआइसीसी दफ्तर के अंदर नहीं जाने दिया जा रहा है। आपको बता दें दिल्ली में कांग्रेस कार्यालय में पुलिस ने कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट की और मीडिया  लोगों के साथ भी बदसलूकी की।  जिसको लेकर कांग्रेस के नेता केंद्र सहित बीजेपी पर निशाना साध रहे हैं।  पीएम मोदी और अमित शाह पर भी कांग्रेस नेताओं ने सवाल खड़े किये हैं। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 June 2022

राहुल के रेस्क्यू में शामिल लोगों का सम्मान

राहुल के रेस्क्यू में शामिल लोगों का सम्मान  सीएम भूपेश बघेल ने किया सम्मान  छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राहुल के रेस्क्यू में शामिल लोगों का सम्मान किया। सम्मान समारोह का आयोजन सीएम निवास में किया गया।  इस दौरान सीएम भूपेश बघेल ने कहा, देश का यह सबसे बड़ा बचाव अभियान था। चुनौती बहुत बड़ी थी, लेकिन हिम्‍मत और जोश की कोई कमी नहीं थी। सभी ने पूरी ताकत, जोश और होश के साथ काम किया। जहां- जहां जिसकी जरूरत पड़ी लोग और मशीनें उपलब्‍ध होती गई। चट्टान भी रास्‍ते में आया तो उसे भी काटने की व्‍यवस्‍था कर ली गई। लोगों की दुआएं भी साथ थी। बघेल ने  राहुल को बोरवोल से बाहर निकालने वाले अंजारूल की बहादुरी का जिक्र किया। पूर्व मासूम राहुल के सफलतापूर्वक रेस्क्यू पर मुख्यमंत्री ने बचाव दल में शामिल सभी विभागों के अधिकारियों व कर्मचारियों को बधाई व शुभकामनाएं दी हैं। वहीं इस दौरान जांजगीर कलेक्‍टर जितेंद्र शुक्‍ला, बिलासपुर आइजी रतनलाल डांगी और एसपी विजय अग्रवाल ने बचाव अभियान की विस्‍तार से जानकारी दी। इस दौरान रेस्‍क्‍यू अभियान में शामिल सभी जांबाजों ने अपने अपने अनुभव साझा किए। आपको बताते चलें पूरे मसले पर सीएम भूपेश बघेल लगातार नजर बनाये हुए थे।  उन्होंने प्रशासन को हर संभव मदद करने की निर्देश दिया था।  राहुल के रेस्क्यू ऑपेरेशन में रेस्क्यू टीम ने काफी मसक्कत की और राहुल को बचाया जा सका।   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 June 2022

प्री मानसून को लेकर बरसात की संभावना

  रायपुर , बिलासपुर सहित कई जगह होगी बारिश  छत्तीसगढ़ की सीमाओं से  दक्षिण-पश्चिम मानसून अभी दूर है।  रायपुर मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक एक पूरब-पश्चिम द्रोणिका पूर्वी उत्तर प्रदेश से मणिपुर तक स्थित है। एक उत्तर-दक्षिण द्रोणिका दक्षिण-पूर्व उत्तर प्रदेश से दक्षिण छत्तीसगढ़ तक 0.9 किलोमीटर ऊंचाई तक विस्तारित है। इस स्थानीय मौसमी तंत्र के प्रभाव से 15 जून को प्रदेश के अनेक स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा होने अथवा गरज-चमक के साथ छींटे पड़ने की संभावना बन रही है। इस दौरान बादलों में गरज-चमक के साथ आकाशीय बिजली गिरने तथा अंधड़ चलने की भी संभावना है। स्थानीय प्रभावों की वजह से मानसून से पहले की बरसात का क्षेत्र बढ़ता जा रहा है। बुधवार को प्रदेश के अनेक स्थानों पर हल्की से मध्यम स्तर की वर्षा की संभावना जताई जा रही है। एक-दो स्थानों पर भारी बरसात की चेतावनी भी है। मंगलवार शाम से ही रायपुर के आसमान पर बादलों का डेरा है। मौसम विभाग के उपग्रह चित्रों से पता चला है कि उत्तर से दक्षिण तक पूरे प्रदेश में बादल छाए हुए हैं। बिलासपुर और सरगुजा संभाग के ऊपर बादलों की सघनता अधिक दिख रही है। संभावना है कि इन्हीं बादलों से बुधवार को अनेक स्थानों पर बरसात होगी। बिलासपुर सहित कई जिलों में बारिश की संभावना है।  मौसम चिपचिपा बना रहेगा। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  15 June 2022

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में निर्विरोध निर्वाचन

  406 पंच, 22 सरपंच ,3 जनपद सदस्य निर्विरोध   त्रिस्तरीय पंचायत उपचुनाव में जनपद सदस्यों को चुना गया।  406 पंच, 22 सरपंच और तीन जनपद सदस्य निर्विरोध चुने गए हैं। पंच के 631 पदों में से 172 और सरपंच के 108 में से 24 पद फिर खाली रह जाएंगे, क्योंकि इनके लिए किसी ने आवेदन ही नहीं किया है। राज्य निर्वाचन आयुक्त कार्यालय के अनुसार त्रिस्तरीय पंचायत उप निर्वाचन में जनपद सदस्य के छह पदों के लिए 18, सरपंच के 84 पदों के लिए 251 और पंच के 454 पदों के लिए 544 अभ्यर्थियों के नाम निर्देशन पत्र वैध पाए गए हैं। जनपद पंचायत सदस्य के एक अभ्यर्थी, सरपंच के दो अभ्यर्थियों और पंच के पांच अभ्यर्थियों के नामांकन निरस्त हो गए। नाम निर्देशन पत्रों की जांच के दौरान बिलासपुर जिले में जनपद पंचायत तखतपुर में सदस्य के लिए एक अभ्यर्थी का आवेदन निरस्त किया गया। साथ ही सरपंच पद के लिए भी एक अभ्यर्थी का आवेदन निरस्त हुआ। रायगढ़ और सूरजपुर जिले में पंच पदों के लिए एक-एक अभ्यर्थी का आवेदन निरस्त हुआ, जबकि बलौदाबाजार में सरपंच और पंच के एक-एक अभ्यर्थी का नामांकन निरस्त हुआ। दुर्ग और कबीरधाम में पंच के एक-एक अभ्यर्थी का नामांकन निरस्त हुआ। बताया जा रहा है कि पंच के 52, सरपंच के 62 और जनपद सदस्य के तीन पदों के लिए चुनाव होंगे। इन पदों के लिए क्रमशः 114, 206 और नौ प्रत्याशी मैदान में हैं। इन पदों के लिए 28 जून को सुबह सात से दोपहर बाद तीन बजे तक मतदान होगा।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 June 2022

नेशनल हेराल्ड मामले में राहुल गांधी से पूछताछ

  विरोध प्रदर्शन पर भूपेश बघेल को हिरासत में लिया गया   नेशनल हेराल्ड केस में  नेता राहुल गांधी की पेशी और पूछताछ के विरोध में मंगलवार को छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के सुरक्षा कर्मियों और दिल्ली पुलिस के बीच हल्की झड़प हो गई और बघेल को दिल्ली पुलिस ने हिरासत में ले लिया। राहुल गांधी से ईडी की पूछताछ के विरोध में कांग्रेस के प्रदर्शन में शामिल होने भूपेश बघेल दिल्ली स्थित कांग्रेस मुख्‍यालय पहुंचे थे। इसके बाद यहां से कांग्रेसी नेता विरोध के लिए ईडी आफिस की ओर निकले थे, तभी पुलिस ने सीएम भूपेश सहित कई कांग्रेसी नेताओं को बीच रास्‍ते में ही रोक लिया। पुलिस ने मुख्‍यमंत्री बघेल सहित अन्‍य कांग्रेस नेताओं को हिरासत में ले लिया। जवाब में सीएम भूपेश ने इसका वीडियो ट्वीट कर रहा, हम सब याद रखेंगे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 June 2022

छत्‍तीसगढ़ जनसंपर्क विभाग में फेरबदल

  15 अधिकारियों का हुआ तबादला   छत्‍तीसगढ़ के जनसंपर्क विभाग में  फेरबदल किया गया है। जनसंपर्क विभाग की ओर से जारी आदेश के मुताबिक 15 अधिकारियों का तबादला किया गया है। जिसमे पंकज गुप्ता संयुक्त संचालक को जिला सनसंपर्क कार्यालय रायपुर से सनसंपर्क संचनालय में भेजा गया है।  छत्तीसगढ़ के जनसंपर्क विभाग और जनसंपर्क संचालनालय में कार्यरत अधिकारियों व कर्मचारियों का तबादला किया गया है। जनसंपर्क विभाग की कवायद से एक संयुक्त संचालक के अलावा तीन उप संचालक, सात सहायक संचालक, तीन सहायक सूचना अधिकारी और सूचना सहायक ग्रेड-2 प्रभावित हुए हैं।   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 June 2022

अवैध गांजा तस्कर हुए गिरफ्तार

  कई क्षेत्रों से अवैध गांजा जब्त  रायपुर में अलग-अलग क्षेत्रों से पुलिस ने दो लाख 48 रुपए कीमत का 24 किलो 800 ग्राम गांजा बरामद किया है। पुलिस ने गांंजा तस्‍करी के  4 आरोपितों को गिरफ्तार किया है।  थाना खमतराई और थाना धरसींवा की पुलिस टीम ने यह कार्रवाई की। खमतराई थाना की पुलिस ने  रेलवे स्टेशन के पास आरोपित उदय जैन को गिरफ्तार किया।आरोपित के कब्जे से 50 हजार रुपए कीमत की पांच किलोग्राम गांजा मिला  है। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ नारकोटिक्स एक्ट का अपराध पंजीबद्ध किया है। खमतराई क्षेत्र के शमशान घाट पास आरोपी तुलसी सोनी निवासी गंज रायपुर को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से 01 किलो 800 ग्राम गांजा कीमती लगभग 18 हजार रूपये जब्त किये हैं।  इनके खिलाफ नारकोटिक्स एक्ट का अपराध पंजीबद्ध किया गया है।  तिरईया ओव्हर ब्रीज के पास आरोपी रामकृष्ण तिवारी निवासी सिलतरा धरसींवा को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से 03 किलोग्राम गांजा कीमती लगभग 30 हजार रूपये जब्त क कर आरोपी के विरूद्ध नारकोटिक्स एक्ट का अपराध पंजीबद्ध कर कार्रवाई किया गया। वहीं थाना धरसींवा क्षेत्र में एच.पी पेट्रोल पंप के सामने आरोपी रमेश अग्रवाल निवासी हीरापुर कबीर नगर को गिरफ्तार कर कब्जे से 15 किलोग्राम गांजा कीमती लगभग 1,लाख पचास हजार रूपये जब्त  कर आरोपी के विरूद्ध नारकोटिक्स एक्ट का अपराध दर्ज किया गया।  गांजा तस्करों के खिलाफ यह बड़ी कार्रवाई मानी जा रही है।    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 June 2022

नेशनल हेराल्ड मनी लॉन्डरिंग मामले में सियासत

  भूपेश बघेल जायेंगे दिल्ली , ED का दुरूपयोग  नेशनल हेराल्ड मनी लॉन्डरिंग मामले में कांग्रेस नेता को कल ईडी के सामने पेश होने के लिए कहा गया है। जिसको लेकर कांग्रेस के नेताओं ने नाराजगी जाहिर की है।  इस मामले में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गाँधी को फ़साने का आरोप लगाया है। रायपुर में छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने इसे लेकर भाजपा और केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा है। उन्‍होंने कहा, मैं आज दिल्ली जा रहा हूं। कल राहुल गांधी की ED के सामने पेशी है। AICC से कल हम सब लोग जाएंगे। केंद्र सरकार ED, CBI और आयकर विभाग का दुरुपयोग करते हुए विपक्ष की आवाज़ को दबाना चाहती है। अब नेशनल हेराल्ड में पेशी को लेकर सियासत छिड़ी हुई है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिल्ली जा रहे हैं।  बताया जा  है की कांग्रेस शक्ति प्रदर्शन किया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 June 2022

पाइप लाइन बिछाने में आधुनिक रडार तकनीक

  130 करोड़ रुपये का  स्मार्ट वाटर प्रोजेक्ट   छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में 130 करोड़ रुपये के स्मार्ट वाटर प्रोजेक्ट के तहत  घर-घर पानी पहुंचाने के लिए 156 किलोमीटर पाइपलाइन बिछाने का काम होगा।  जसे  अब  आधुनिक रडार तकनीक से पहले यह पता लगाया जाएगा कि जहां खोदाई करनी है।  जमीन के भीतर की संरचना क्या है। सड़क-चौराहों पर पाइपलाइन या केबल बिछाने के लिए होने वाली अनियंत्रित खोदाई से शहरवासियों को राहत देने के लिए सैटेलाइट आधारित यह सिस्टम स्मार्ट सिटी ने लाया है।  जानकारी के अनुसार सैटेलाइट का इस्तेमाल करते हुए शहर में बड़ी आबादी वाले हिस्से का सर्वे पूरा कर लिया गया है। अब पाइपलाइन डालने के लिए रडार तकनीक का इस्तेमाल किया जाएगा। प्रोजेक्ट के तहत 18 महीने के भीतर शहर के 24 हजार घरों तक 24 घंटे पानी पहुंचाया जाएगा। बताया जा रहा है कि पहले फेस  में स्मार्ट वाटर प्रोजेक्ट की शुरुआत मोतीबाग और गंज मंडी स्थित पानी टंकी से होगी। इन टंकियों से रोजाना 24 हजार घरों में 85 लाख लीटर से ज्यादा पानी की आपूर्ति की जाएगी। दूसरे चरण में यह सर्वे किया जाएगा कि इस क्षेत्र के घरों, दफ्तरों और सार्वजनिक स्थानों में कितने नल कनेक्शन दिए जाने हैं। इसमें डा. आंबेडकर अस्पताल और डीकेएस अस्पताल को भी जोड़ा गया है। स्मार्ट सिटी ने शहर के घनी बसाहट वाले इलाके और तंग गलियों वाले हिस्सों का सैटेलाइट सिस्टम से सर्वे किया है। इसके तहत बैजनाथपारा में किस तरह पाइपलाइन जाएगी, इसके लिए मोतीबाग पानी टंकी से तकनीकी टीम ने सेंसर के जरिए सिग्नल भेजे। इसके साथ ही कई वार्डों का सर्वे किया गया है।  जहां खोदाई के बाद पाइप लाइन का काम शुरू होगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 June 2022

मलेरिया मुक्ति के लिए अभियान

  बस्तर संभाग में 16 जून तक अभियान मलेरिया मुक्त प्रदेश के लिए छत्तीसगढ़ में प्रयास  किये जा रहे हैं। बस्तर संभाग के सातों जिलों में 16 जून तक अभियान चलेगा। इस दौरान मलेरिया पाजिटिव पाए गए पांच हजार 37 मरीजों का मौके पर ही इलाज शुरू किया गया। बस्तर जिले में 740, बीजापुर में 935, दंतेवाड़ा में 859, कांकेर में 127, कोंडागांव में 238, सुकमा में 356 और नारायणपुर में 1782 लोग मलेरियाग्रस्त पाए गए। छठवें चरण की जांच के दौरान अब तक पाजिटिव पाए गए 40 प्रतिशत मरीजों में मलेरिया के लक्षण दिखाई दे रहे थे।  जबकि 60 प्रतिशत में इसके कोई लक्षण नहीं थे।  अभियान में टीबी के लक्षणों के आधार पर संभावित मरीजों की स्क्रीनिंग की जा रही है। बस्तर जिले में 261, बीजापुर में 233, दंतेवाड़ा में 172, कांकेर में 492, कोंडागांव में 437, सुकमा में 231 और नारायणपुर में 213 संदेहास्पद मरीजों की पहचान की गई। इसमें से एक हजार 728 मरीजों के बलगम की जांच कराई गई, जिसमें 64 टीबी पाजिटिव पाए गए। मलेरिया से कई जिलों में जान जा चुकी है।  जिसको देखते हुए अभियान चलाया जा रहा है।  लोगों की जाँच कर उनका ट्रीटमेंट किया जा रहा है। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 June 2022

4 केटेगरी में बेस्ट स्टार्टअप का अवार्ड

सीएम भूपेश बघेल ने दी शुभकामनाएं    छत्तीसगढ़ में इंडिया फर्स्ट टेक स्टार्टअप कानक्लेव ने  4 केटेगरी में बेस्ट स्टार्टअप का अवार्ड प्राप्त किया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और उद्योग मंत्री कवासी लखमा ने राज्य के अवार्ड प्राप्त करने वाले सभी स्टार्टअप कम्पनियों  के अधिकारियों को बधाई  दी है। बेंगलुरू में इस स्टार्टअप का प्रदर्शन किया गया था।  आपको बता दें कि स्टार्टअप कम्पनियों को प्रोत्साहित करने के लिए विगत 8 और 9 जून को आल इंडिया काउंसिल फॉर रोबोटिक्स एंड आटोमेशन ने बेंगलुरू में इस कानक्लेव का आयोजन किया था। कानक्लेव में छत्तीसगढ़ के स्टार्टअप को इमोबिलिटी वर्ग में स्मार्ट यात्री प्राइवेट लिमिटेड, महिला वर्ग में ग्रीनफील्ड इकोसोल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड, एग्रीटेक वर्ग में सिद्धार्थ एग्रो मार्केटिंग एंड लॉजिस्टिक्स प्राइवेट लिमिटेड तथा ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी वर्ग में प्रॉमिनेंट इनोवेशन लैब प्राइवेट लिमिटेड को बेस्ट स्टार्टअप का अवार्ड दिया गया।   स्टार्टअप इनक्यूबेशन हेतु इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय - रबी को सर्वश्रेष्ठ इनक्यूबेशन सेंटर के रूप में सम्मानित किया गया।   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 June 2022

फिर बढ़ रहे कोरोना के मामले

 कोरोना के 19 मामले ,एक की मौत    छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश में फिर कोरोना के मामले बढ़ने लगे हैं।  छत्तीसगढ़ में कोरोना के 19 मामले सामने आए हैं।  वहीं मध्यप्रदेश में 50 मामले सामने आए हैं।  छत्तीसगढ़ में कोरोना से एक कि मौत हुई है। बता दें तीन महीने बाद एक मरीज की मौत हुई है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार मरीज को कोरोना के अलावा अन्य गंभीर बीमारी थी। राज्य में हर दिन औसत 4000 जांच हो रहे हैं। इसमें पाजिटिविटी दर 0.53 है। वर्तमान में राज्य में 76 कोरोना के सक्रिय मरीज हैं। रायपुर में सर्वाधिक 23 मरीज हैं। वहीं बिलासपुर में 14 मरीज सक्रिय हैं। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सावधानी बरतने  की जरूरत है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 June 2022

नक्सल कमांडर माडवी हिड़मा पर 25 लाख रुपये का इनाम

झीरम घाटी नक्सली हमले के साथ कई मामलों में मुख्य आरोपित राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण ने पीपल्स लिबरेशन गुरिल्ला आर्मी के नक्सल कमांडर माडवी हिड़मा पर 25 लाख रुपये का इनाम घोषित किया है। छत्तीसगढ़ पुलिस समेत कई नक्सल प्रभावित राज्यों की पुलिस के लिए मोस्टवांटेड नक्सली है। माडवी हिड़मा बस्तर के झीरम घाटी नक्सली हमले के साथ के साथ कई मामलों में मुख्य आरोपित है। यह  सुकमा, बीजापुर और दंतेवाड़ा में भी सक्रिय है। आपको बता दें झीरम घाटी नक्सली हमले में कांग्रेस के तत्कालीन प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार पटेल, पूर्व केंद्रीय मंत्री विद्याचरण शुक्ला, बस्तर टाइगर के नाम से पहचाने जाने वाले वरिष्ठ कांग्रेस नेता महेंद्र कर्मा सहित 32 लोगों की मौत हुई थी। यह अबतक का सबसे बड़ा नक्सली हमला किया है।  एनआइए ने आंध्र प्रदेश के खूंखार नक्सली नंबाला केशव राव पर 50 लाख रुपये का इनाम घोषित किया है।  वर्ष 2010 में ताड़मेटला में हुए नक्सली हमले में सीआरपीएफ के 76 जवानों के बलिदान में भी हिड़मा की अहम भूमिका मानी जाती है। वर्ष 2017 में बुरकापाल में हुए हमले में भी हिड़मा ही मास्टरमाइंड था। इस हमले में 25 जवानों का बलिदान हुआ था। बीजापुर में फोर्स पर उसके नेतृत्व में ही हमला हुआ था। इसमें 22 जवान बलिदान हुए थे। हिड़मा की सभी नक्सलाइड गतिविधियों में शामिल होने के चलते वह मोस्ट वांटेड है।  और  अब उस पर NIA ने ईनाम घोषित कर  दिया है।    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 June 2022

मंत्री टीएस सिंह देव ने सीएम का जताया आभार

ट्वीट कर कहा भूपेश बघेल का धन्यवाद  छत्‍तीसगढ़ के हसदेव अरण्य वन को लेकर बयानबाजी और ट्वीटर वार जारी है।  कल मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल ने मंत्री टीएस सिंहदेव को लेकर कहा था की  अगर सिंह देव नहीं  चाहते तो पेड़ क्या, एक डंगाल भी नहीं कटेगी। अब टी एस सिंह देव ने  भूपेश बघेल का आभार जताया है। मंत्री सिंहदेव ने सीएम भूपेश को ट्वीट कर धन्‍यवाद कहा। सिंहदेव ने टि्वटर पर कहा, भूपेश भाई को हसदेव आंदोलन पर बयान के लिए आभार। लगभग 100 दिन से लगातार आंदोलनरत ग्रामीणों की बात पर उन्होने उनके पक्ष में सहमति व्यक्त की है। प्रश्न आंदोलन कर रहे ग्रामीणजनों के व्यापक एवं सांविधानिक हित का है और उनके साथ खड़े होने पर भूपेश बघेल भाई को पुनः धन्यवाद। आपको बता दें कि हसदेव अरण्य वन को काटने का ग्रामीण  लगातार विरोध कर रहे हैं।  वहीं इसको लेकर भाजपा ने भूपेश बघेल को निशाने में लिया था।  जंगल न काटने को लेकर टीएस सिंह देव ने ग्रामीणों का समर्थन किया है। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  8 June 2022

चोरी के शक में एक नाबालिग को पीटा , निर्वस्त्र किया

 तीसरी मंजिल से लगाई छलांग , होटल संचालक से पूछताछ  छत्‍तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में मोबाइल चोरी के शक में एक नाबालिग को निर्वस्त्र कर बेरहमी से पिटाई की गई।  यह मामला राजधानी रायपुर के गोल बाजार थाना क्षेत्र का है।  पूछताछ से बचने के प्रयास में नाबालिग इमारत की तीसरी मंजिल से कूद गया। जिसमें नाबालिग बुरी तरह घायल हो गया। बताया जा रहा है कि उसकी पसली और नाक में चोट आई है। फिलहाल नाबालिग की हालत नाजुक बनी हुई है। हालांकि पुलिस ने नाबालिग की पिटाई करने वाले होटल संचालक से पूछताछ कर रही है। मामले में होटल सिटी पैलेस संचालक  पूछताछ की जा रही है। नाबालिग तीसरी मंजिल से कूदने की वजह से बुरी तरह घायल हो गया है । उसे पसली और नाक में चोट आई है। जिसका  इलाज अंबेडकर अस्पताल में चल रहा है। नाबालिग की हालत नाजुक बनी हुई है।  घटना के संबंध में वीडियो और बच्चे का फोटो प्राप्त हुआ है। नाबालिग केस में अभी पूछताछ जारी है।  लेकिन संचालक की इस करतूत ने कई सवाल खड़े कर दिए हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 June 2022

हसदेव अरण्य को लेकर सियासत जारी

सीएम -सिंह देव नहीं चाहते तो पेड़ क्या डंगाल तक नहीं कटेगा   हसदेव अरण्य को बचाने के लिए एक ओर ग्रामीण कर रहे हैं तो वहीं इसे लेकर प्रदेश में सियासत भी तेज हो गई है। छत्तीसगढ़ में हसदेव अरण्य मामले पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का बड़ा बयान सामने  आया है। बघेल ने कहा, मंत्री टीएस सिंहदेव नहीं चाहते हैं तो पेड़ क्या डंगाल तक नहीं कटेगा। गोली चलाने की नौबत नहीं आएगी। गोली चलाने वाले पर ही गोली चल जाएगी। हसदेव अरण्‍य के मुद्दे पर भाजपा के विरोध को लेकर उन्‍होंने कहा, खदान आबंटन का काम केंद्र सरकार का है। भाजपा को केंद्र सरकार के सामने  विरोध करना  चाहिए। भाजपा की ओर से सवाल उठाना भी गलत है। भाजपा का विरोध करना बीजेपी का दोहरा चरित्र दर्शाता है। विरोध दिल्ली में होना चाहिए।  भाजपा ने हसदेव अरण्य के मुद्दे पर छत्‍तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार पर जमकर निशाना साधा है। वहीं इस मामले में भाजपा नेता और पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा, हसदेव अरण्य के मामले को लेकर आज पूरे देश में रोष है।  छत्तीसगढ़िया के बारे में बात करने वाले आज हसदेव मामले पर चुप क्यों है। हसदेव में 4 लाख पेड़ कटेंगे। हसदेव में 55 लाख मीट्रिक टन कोयला है। उहोंने कहा  अपने नेता को उपकृत करने लिए छोटा भाई बलि पर चढ़ा रहा है। उन्होंने  सरकार से पूछा  आक्सीजन की ज्यादा जरूरी है या कोयला। अब इस मामले में सरकार का क्या फैसला होगा ये  समय ही बताएगा।  फिलहाल तो सरकार भी ग्रामीणों के पक्षों। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 June 2022

राज्‍यसभा सदस्‍य शुक्‍ला की हरियाणा विधायकों से मुलाकात

हरियाणा राज्यसभा चुनाव को लेकर चर्चा ज्यादा  छत्‍तीसगढ़ से नवनिर्वाचित राज्‍यसभा सदस्‍य राजीव शुक्‍ला  दोपहर रायपुर पहुंचे। राज्‍यसभा सदस्‍य शुक्‍ला  हरियाणा के विधायकों से मुलाकात करेंगे। एयरपोर्ट पर मीडिया से बातचीत में राजीव शुक्‍ला ने हरियाणा राज्यसभा चुनाव में कांग्रेस के उम्‍मीदवार की जीत का दावा किया है । उन्‍होंंने ये भी हरियाणा राज्यसभा चुनाव में जीत के लिए विधायकों की संख्‍या पर्याप्‍त है। शुक्‍ला ने कहा, रायपुर में हरियाणा के विधायकों का प्रशिक्षण चल रहा है। गौरतलब है कि  राज्यसभा चुनाव की दृष्टि से कांग्रेस के लिए सबसे संवेदनशील माने जा रहे हरियाणा में मुख्यमंत्री के साथ प्रदेश से नवनिर्वाचित राज्यसभा सदस्य राजीव शुक्‍ला को पर्यवेक्षक बनाया गया है। वहीं  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को कांग्रेस आलाकमान ने फिर एक बार बड़ी जिम्मेदारी सौंपी है। पार्टी ने बघेल को राज्यसभा चुनाव के लिए हरियाणा का पर्यवेक्षक नियुक्त किया है। वहीं प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव को राजस्थान की जिम्मेदारी सौंपी गई है। गौरतलब है कि इन दिनों राज्यसभा की सीट को लेकट गंसां मचा हुआ है।  जिसमे हरियाणा को लेकर चर्चा ज्यादा है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 June 2022

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर तैयारियां शुरू

755 पदों के लिए शुक्रवार से नामांकन शुरू  छत्तीसगढ़ में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर तैयारियां शुरू हो गई है। त्रिस्तरीय पंचायत उप निर्वाचन में कुल 755 पदों के लिए शुक्रवार से नामांकन की प्रक्रिया शुरू हो गई। इसके साथ ही उप जिला निर्वाचन अधिकारियों और मास्टर टेनर्स का प्रशिक्षण् प्रारम्भ किया गया।यह प्रशिक्षण  वीडियो कांफ्रेंसिंग के मध्यम से  किया गया। इसमें राज्य निर्वाचन आयुक्त ठाकुर राम सिंह ने निर्वाचन कार्य को गंभीरता से लेते हुए सतर्कता एवं सजगता के साथ संचालित करने के निर्देश दिए। गौरतलब है कि राज्य के 28 जिलों में सात जनपद पंचायत सदस्य, 118 सरपंच व 630 पंच के रिक्त पदों पर उप निर्वाचन कराया जा रहा है। नामनिर्देशन पत्रों की प्राप्ति, संवीक्षा, प्रतीक चिन्ह का आवंटन आदि के संबंध में प्रशिक्षण दिया गया। राज्य निर्वाचन आयुक्त ठाकुर राम सिंह ने कहा कि यह चुनाव छोटा है लेकिन जवाबदारी बड़ी है। इसलिए सावधानी से सभी प्रक्रियाएं पूर्ण करें। उन्होंने ओनो और जाबो कार्यक्रम का व्यापक प्रचार-प्रसार करने के निर्देश दिए। ओनो साफ्टवेयर का शत-प्रतिशत प्रयोग करने का कहा। उन्होंने कोविड प्रोटोकाल का पालन करने का निर्देश भी दिया और कहा कि मतदान दलों को इसके लिए मास्क आदि की सुविधाएं उपलब्ध कराएं। आयुक्त ने कहा कि उप निर्वाचन के दौरान आचार संहिता का कड़ाई से पालन कराएं। चुनाव को लेकर निर्वाचन आयोग पूरी तरह सतर्क है। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 June 2022

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी रायपुर दौरे पर

आगनबाड़ी में बच्चों से की बातचीत  केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी और केंद्रीय कानून मंत्री किरेन रिजिजू रायपुर दौरे पर हैं।  मंत्री और विभागीय अधिकारियों के साथ भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं ने  एयरपोर्ट पर दोनों मंत्रियों का स्वागत किया। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी का एयरपोर्ट पर प्रदेश की महिला बाल विकास मंत्री अनिला भेड़िया ने स्वागत किया। केंद्रीय मंत्री  नवा रायपुर के उपरवारा गाँव स्थित आंगनबाड़ी केंद्र के लिए रवाना हुईं। स्मृति ईरानी आजादी के अमृत महोत्सव के तहत केंद्रीय योजनाओं की समीक्षा करने के लिए जोनल स्तर पर छत्तीसगढ़, ओडिशा और पश्चिम बंगाल के विभागीय अधिकारियों ले रही हैं। केंद्र सरकार के पिछले आठ वर्षों के कामों की समीक्षा करने के साथ ही महिलाओं व बच्चों के कल्याण और सुरक्षा की योजनाओं का एजेंडा तय करने के लिए रायपुर पहुंची हैं। रायपुर दौरे को लेकर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी की गई है।  आजादी का अमृत महोत्सव के तहत उन्होंने समीक्षा की।  रायपुर पहुंची केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने आंगनबाड़ी केंद्र में शिक्षिका बनकर बच्चों को पढ़ाया। मंत्री स्मृति ने वर्णमाला चार्ट से बच्चों से सवाल भी पूछा और बच्चों ने बिना डरे बेबाकी से जवाब दिया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 June 2022

छत्तीसगढ़ बेरोजगारी कम करने में पहले स्थान पर

सबसे अधिक बेरोजगारी दर हरियाणा में 24.6 % भारत  में बेरोजगारी की दर कम करने के मामले में छत्तीसगढ़ राज्य पहले नंबर पर आया है । देश में सबसे अधिक बेरोजगारी दर हरियाणा में 24.6 प्रतिशत, राजस्थान में 22.2 प्रतिशत, जम्मू और कश्मीर में 18.3 प्रतिशत, त्रिपुरा में 17.4 प्रतिशत, दिल्ली में 13.6 प्रतिशत, गोवा में 13.4 प्रतिशत, बिहार में 13.3 प्रतिशत, झारखंड में 13.1 प्रतिशत, हिमाचल प्रदेश में 9.6 प्रतिशत, तेलंगाना में 9.4 प्रतिशत, पंजाब में 9.2 प्रतिशत, असम में 8.2 प्रतिशत व सिक्किम में 7.5 प्रतिशत दर्ज की गई। सेंटर फार मानिटरिंग इंडियन इकोनामी की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक मई में छत्तीसगढ़ की बेरोजगारी दर मात्र 0.7 प्रतिशत रही, जबकि इसी अवधि में देश में बेरोजगारी दर 7.1 प्रतिशत थी। इससे पहले मार्च, अप्रैल 2022 में भी छत्तीसगढ़ की बेरोजगारी दर देश में सबसे कम 0.6 प्रतिशत थी। CMIE  के अनुसार देश के कम बेरोजगारी दर वाले राज्यों में मध्यप्रदेश 1.6 प्रतिशत, गुजरात 2.1 प्रतिशत, ओडिशा 2.6 प्रतिशत, उत्तराखंड 2.9 प्रतिशत, तमिलनाडु और उत्तर प्रदेश 3.1 प्रतिशत, महाराष्ट्र और मेघालय 4.1 प्रतिशत, कर्नाटक 4.3 प्रतिशत, आंध्र प्रदेश 4.4 प्रतिशत, पांडिचेरी 5.6 प्रतिशत व केरल 5.8 प्रतिशत शामिल हैं।  इसके बाद राजीव गांधी किसान न्याय योजना, गोधन न्याय योजना, सुराजी गांव योजना, नरवा-गरवा-घुरवा-बाड़ी कार्यक्रम, राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन किसान न्याय योजना, नई औद्योगिक नीति का निर्माण, वन और कृषि उपजों के संग्रहण की बेहतर व्यवस्था, उपजों का स्थानीय स्तर पर प्रसंस्करण और वैल्यू एडीशन, ग्रामीण औद्योगिक पार्कों की स्थापना, लघु वनोपजों के संग्रहण दर में वृद्धि, 65 तरह के लघु वनोपजों की समर्थन मूल्य पर खरीद, तेंदूपत्ता संग्रहण पारिश्रमिक दर में वृद्धि, मछली पालन व लाख उत्पादन को कृषि का दर्जा, परंपरागत शिल्पियों, बुनकरों व उद्यमियों को प्रोत्साहन, हर जिले में सी-मार्ट की स्थापना जैसे कई कदम उठाए गए हैं।  बेरोजगारी में इस समय देश सबसे बुरे दौरा से गुजर रहा है।  कोरोना के बाद कई लोगों की नौकरी छूट  गई।  कई लोग बेरोजगार हो गए।  जिसके बाद छत्तीसगढ़ के लिए ये खबर राहत भरी बताई जा रहे है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 June 2022

जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के उम्मीदवार का नामांकन रद्द

अनिवार्य शर्त पूरा नहीं करने पर उनका नामांकन रद्द  जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के उम्मीदवार हरिदास भारद्वाज का राज्यसभा चुनाव में  नामांकन रद्द  हो गया है। राज्यसभा के चुनाव अधिकारी ने नामांकन की स्‍क्रूटनी के बाद यह फैसला लिया है। हरिदास भारद्वाज द्वारा नौ विधायकों के दस्तखत प्रस्तावक-समर्थक के अनिवार्य शर्त पूरा नहीं करने पर उनका नामांकन कर दिया गया है। भारद्वाज ने तीन विधायकों के समर्थन के साथ नामांकन दाखिल किया है। विधानसभा के सचिव और राज्यसभा के चुनाव अधिकारी दिनेश शर्मा ने बताया कि राज्यसभा का चुनाव लड़ने के लिए विधानसभा के कुल विधायकों के 10 प्रतिशत विधायकों को उम्मीदवार का प्रस्तावक-समर्थक होना चाहिए। छत्तीसगढ़ विधानसभा में 90 विधायक हैं। इस लिहाज से नौ विधायकों के दस्तखत प्रस्तावक-समर्थक के तौर पर होने पर ही नामांकन वैध होगा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम की मौजूदगी में करीब आधे घंटे तक चर्चा हुई। कांग्रेस उम्मीदवार के लिए तीन सेट में नामांकन पत्र तैयार करके प्रस्तावकों और समर्थकों के हस्ताक्षर लिए गए। इसके बाद उम्मीदवारों के साथ सभी विधायक विधानसभा के लिए रवाना हुए। पंजाब के दौरे के कारण मंत्री टीएस सिंहदेव विधायक दल की बैठक में शामिल नहीं हो पाए। भरद्वाज का नामांकन रद्द होने के बाद कांग्रेस के दो राज्यसभा सांसद जाने तय हैं।    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 June 2022

मंत्री प्रहलाद पटेल पहुंचे रायपुर

 स्ट्रेस मैनेजमेंट होंगे शामिल  केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग और जल शक्ति राज्य मंत्री प्रहलाद पटेल रायपुर पहुंचे।  इस दौरान एयरपोर्ट पर भाजपा नेताओं ने उनका जोरदार स्‍वागत किया। पटेल यहां नेशनल इंस्टीट्यूट आफ बायोटिक स्ट्रेस मैनेजमेंट बरौदा में आयोजित में कार्यक्रम में शामिल होंगे। पर  केंद्रीय पटेल मोदी सरकार के आठ साल पूरे होने का लिब्रेशन है। आजादी के 75 वर्ष का उत्सव देश मना रहा है। पिछले आठ वर्ष सेवा और सुशासन का है। आठ वर्ष में जो कार्य शैली बदली है और ऐतिहासिक फैसले हुए हैं देश की आजादी के बाद कभी नहीं हुए। आज गरीब कल्याण योजना के माध्यम से इन बातों का स्मरण और समीक्षा होगी। उन्होंने कहा आम आदमी हो या कोई अन्य राजनीतिक दल के कार्यकर्ता अगर देखा जाय तो एक विशाल नेतृत्व भारत के पास है। यूक्रेन और रूस के युद्ध के बीच मोदी दुनिया के एकमात्र ऐसे नेता थे जिनकी बात को दोनों देश के राष्ट्रपति ने सुना और हम अपने बच्चों को वहां से सकुशल निकाल पाए। उन्‍होंने कहा कि हमारे लिए खाद्य प्रसंस्करण के जितने भी क्षेत्र है उसमे काम करेंगे, जो अवरोध होगा उसे ठीक करेंगे। वहीं उन्होंने केंद्र के कार्यों का बखान भी किया। पीएम मोदी के विदेश नीति की भी तारीफ की।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 May 2022

 सिरफिरे आशिक ने की प्रेमिका की हत्या

विवाद होने पर चाकू से रेता गाला  रायपुर में एक सिरफिरे आशिक की करतूत सामने आई  ... आशिक ने प्रेमिका की चाकू मारकर हत्या कर दी।  अभनपुर के कसेरू डीही गांव में आशिक ने अपने प्रेमिका की चाकू से गला  रेतकर हमार डाला। इसके बाद  युवती की लाश छोड़कर फरार हो गया ।सूचना मिलने पर पुलिस ने हत्यारे की तलाश की और अब उससे पूछताछ जारी है। बताया जा रहा है एस साहू अपनी प्रेमिका सुमन साहू के साथ कहीं से लौट रहा था। इस दौरान रात को ही दोनों के बीच किसी बात को लेकर झगड़ा  हो गया। विवाद इतना बढ़ा की प्रेमी एस साहू ने सुमन के गले में चाकू से हमला कर दिया, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई है।  पूरा मामला प्रेम प्रसंग से जुड़ा लग रहा है। पुलिस ने लाश को कब्जे में लेकर पंचनामे के लिउए भेज दिया है।  और आरोपी से पूछताछ जारी है। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 May 2022

करदाताओं की संख्या 78 फीसद तक बढ़ी

11 लाख 50 हजार बढ़ी करदाताओं की संख्या  छत्‍तीसगढ़ में करदाताओं की संख्या में इजाफा हुआ है। बीते 5  वर्षों में करदाताओं की संख्या 78 फीसद तक बढ़ गई है। आपको बता दें वित्तीय वर्ष 2016-17 में करदाताओं की संख्या 6 लाख 5 सौ 50 थी, जो वित्तीय वर्ष 2020-21 में बढ़कर 11 लाख 50 हजार हो गई है। जो की बेहद प्रसन्नता का विषय है। इससे पता चलता है कि अब करदाता जागरूक हो गए हैं।  हालांकि अभी भी इसमें बढ़ोतरी की संभावनाएं है।  और कई करदाता कर जमा नहीं कर रह हैं। करदाताओं को चाहिए कि वे पूरी ईमानदारी के साथ अपना रिटर्न जमा करें। करदाताओं की संख्या  महिलाओं का योगदान भी बढ़ने लगा है। महिलाएं भी अब कामकाजी होने के साथ ही व्यवसाय संभालती है। इसके चलते प्रदेश में भी करदाताओं में महिलाओं की संख्या बढ़ने लगी है। एक अनुमान के अनुसार वर्तमान में प्रदेश में कुल करदाताओं में से महिला करदाताओं की संख्या अनुमानित 25 फीसद है। अगर वित्तीय वर्ष 2016-17 से तुलना की जाए तो महिला करदाताओं की संख्या में काफी बढ़ोतरी हुई है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 May 2022

राजधानी रायपुर में मशीनों से साफ़ होंगे तालाब

तालाबों को साफ करने निगम ने बढ़ाया कदम  राजधानी रायपुर  तालाबों की सफाई मशीन से कराई जाएगी। आपको बता दें तालाबों की हालत ठीक नहीं है।  तालाब जलकुंभी और खरपतवार से पटे हुए है।लेकिन अब  नगर निगम पोंड क्लीनर और बीड हार्वेस्टर मशीन खरीदने की तैयारी कर रहा है। इससे तालाबों की सफाई नियमित तौर पर होगी और मशीन नगर निगम को बार-बार खर्च नहीं करना पड़ेगा। जानकारी के मुताबिक़ मशीन की खरीदी के बाद अगले दस साल तक तालाबों की सफाई बेहतर ढंग से होती रहेगी। जलकुंभी साफ करने के साथ तालाबों में पानी रीचार्ज के भी उपाय किए जाएंगे।कैचमेंट एरिया के आसपास अतिक्रमण को रोकने के साथ पुराने कब्ज भी हटाए जाएंगे। तालाबों को पुनर्जीवित करने के लिए निगम बड़े पैमाने पर अभियान चलाएगा। अधिकांश तालाबों में सौंदर्यीकरण के काम पूरे हो चुके हैं, लेकिन उनके पानी को बचाने और साफ करने को लेकर सरकारी स्तर पर कोई बड़ा प्लान अब तक नहीं बन पाया है।तालाबों के सुंदरीकरण पर  निगम और स्मार्ट सिटी मिलकर 70 करोड़ रुपए से ज्यादा के प्लान पर काम कर रहे हैं।  नगर निगम को कई  कंपनियां अपनी-अपनी मशीनों की खासियत की जानकारी देंगी। खरीदी के लिए टेंडर जारी किया जाएगा। ओपन टेंडर में सभी कंपनियां हिस्सा ले सकेंगी। बताया जा रहा है की इन मशीनों के आने से कम समय में अधिक सफाई की जा सकेगी।  मशीनों से कई तालाबों को साफ और स्वच्छ किया जा सकेगा। a

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 May 2022

बीएसएनएल की 4जी सेवा होंगी शुरू

'मेक इन इंडिया" तकनीक पर आधारित होगी छत्तीसगढ़ में BSNL की  साल के अंत तक बीएसएनएल की 4जी सेवा शुरू होने वाली है। बीएसएनएल की 4जी सेवाएं 'मेक इन इंडिया" तकनीक पर आधारित होगी। छत्तीसगढ़ के अलग-अलग क्षेत्रों में 4जी की टेस्टिंग हो चुकी है। पहले चरण में 300 मोबाइल टावरों के जरिए 4जी की लांचिंग की जाएगी। इसके बाद धीरे-धीरे प्रदेशभर में नेटवर्क का विस्तार किया जाएगा। वर्तमान में बीएसएनएल का 2जी-3जी नेटवर्क है। 4जी की लांचिंग के बाद बीएसएनएल का सीधा मुकाबला निजी कंपनियों के साथ होगा।  उम्मीद जताई जा रही है कि ग्राहकों को बेहतर डेटा स्पीड मिलेगी। 1500 करोड़ की लागत से 1670 टावर लगेंगे। दूरसंचार निगरानी प्रकोष्ठ एवं प्रवर्तन विभाग के उप महानिदेशक नीरेश शर्मा ने बताया कि केंद्र सरकार के संचार मंत्रालय के मुताबिक छत्तीसगढ़ के हर गांव में मोबाइल नेटवर्क के लिए 1500 करोड़ की लागत से 1670 मोबाइल टावर लगाएं जाएंगे। इस परियोजना का लक्ष्य अक्टूबर-2023 तक रखा गया है। अधिकारियों के मुताबिक, प्रदेश में 14 आदिवासी जिले नक्सल प्रभावित हैं। इन जिलों के गांवों में 4जी सेवा प्रदान करने के लिए 845 करोड़ की लागत से 971 टावर लगाएं जाएंगे। BSNL  में योजना विभाग की महाप्रबंधक माधुरी निम्जे ने बताया कि बीएसएनएल का 4जी पूरी तरह मेक इन इंडिया पर आधारित होगा। इसके लिए टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) के साथ राष्ट्रीय स्तर पर समझौता किया गया है। BSNL प्रबंधन द्वारा मेक इन इंडिया तकनीक से ही 4जी उपकरणों की स्थापना होगी। काफी जल्दी प्रदेशभर के लोगों को नई तकनीक का अनुभव मिलने वाला है। बीएसएनएल में मोबाइल शाखा के महाप्रबंधक कुश मनहर ने बताया कि दिसंबर-2022 तक प्रदेश में 4जी की लांचिग हो सकती है। धीरे-धीरे नेटवर्क का प्रदेशभर में विस्तार किया जाएगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 May 2022

बदला मौसम का मिजाज

 बादल छाने से मिली रहत  छत्‍तीसगढ़ में भारी गर्मी के बीच अब मौसम ने करबट ली है। सुबह से आसमान में धूप-छांव का खेल जारी था। दोपहर तक तेज हवा चलने से गर्मी से कुछ राहत मिली। लेकिन दोपहर बाद आसमान में घने बादल छा गए और झमाझम बारिश हुई। जिससे मौसम काफी ठंडा हो गया। तापमान में भी दो-तीन डिग्री की गिरावट दर्ज की गई। वहीं मौसम विभाग का पूर्वानुमान एक बार फिर सही साबित हुआ। मौसम विभाग ने आज बारिश की संभावना जताई थी। रायपुर के अलावा प्रदेश के दूसरे जिलों में भी तेज हवाओं के साथ बारिश हुई। बारिश के बाद तापमान में गिरावट से लोगों को गर्मी से काफी राहत मिली। इससे पहले नौतपा के प्रथम दिन बुधवार को सूर्यदेव का प्रचंड रूप नहीं दिखा। द्रोणिका के प्रभाव से मौसम का मिजाज बदला है और इसके चलते प्रदेश के कुछ क्षेत्रों में मंगलवार की रात बारिश हुई। बुधवार को भी हल्की बारिश और आंशिक रूप से बादल छाए रहने से नौतपा का पहला दिन कम तपा।  गुरुवार को भी प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में बारिश और गरज-चमक के साथ छींटे पड़ेंगे। साथ ही कुछ क्षेत्रों में बिजली भी गिर सकती है। आने वाले कुछ दिनों तक प्रदेश में मौसम का मिजाज ऐसा ही रहेगा और नौतपा पिछले वर्षों की तुलना में कम तपाएगा।मौसम का मिजाज बदलने से बुधवार को राजधानी रायपुर सहित प्रदेश भर में अधिकतम तापमान में पांच डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट दर्ज की गई। रायपुर का अधिकतम तापमान 40.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से एक डिग्री सेल्सियस कम रहा। इसी प्रकार दुर्ग का अधिकतम तापमान 38.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 May 2022

एनआईटी रायपुर के स्‍टूडेंट की नई तकनीक

एनआईटी रायपुर के स्‍टूडेंट की नई तकनीक एनआईटी रायपुर के स्‍टूडेंट ने नई तकनीक निकाली है। इस तकनीकि के माध्यम से अब गाड़ियां अपने लिए खुद ही ऊर्जा पैदा कर लेंगी। राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (एनआइटी), रायपुर के एक शोधार्थी ने ऐसी तकनीक ईजाद की है, जिसके प्रयोग से वाहन अपने लिए खुद ऊर्जा पैदा कर लेंगे। जैसे ही वाहन का पहिया घूमेगा, उससे ऊर्जा उत्पन्न् होगी। इस तकनीक से वाहन की हेडलाइट जलेगी और म्यूजिक सिस्टम, सेंसर बोर्ड, सैल्फ स्टार्ट आदि चलेंगे। इसे इलेक्ट्रानिक्स इंजीनियरिंग विभाग के डा. एस. पटनायक ने तैयार किया है। उन्होंने बताया कि यह पीजो विल तकनीक है। अभी इसे 200 किलोग्राम वजनी वाहन में लगाया जाएगा। जैसे-जैसे वाहनों का वजन बढ़ेगा, इससे और अधिक ऊर्जा उत्पन्न होगी। इस शोध को पेटेंट मिल गया है। बताया जा रहा है कि तकनीक से भविष्य में इलेक्ट्रिक वाहनों में बार-बार चार्जिंग की परेशानी से भी छुटकारा मिलेगा। तकनीक में बदलाव की प्रक्रिया अंतिम चरण में है। एक बार पहिया घूमने पर 10 वाट ऊर्जा उत्पन्ना होती है। इस तकनीक को लगाने का खर्च 2,000 रुपये तक आता है। पीजो विल तकनीक के माध्यम से पहिये और रिम के बीच घेरे में करीब आठ से 10 पीजो इलेक्ट्रिक यंत्र लगाए जाते हैं। इन्हें विद्युतीय तार के माध्यम से वाहन में अल्ट्रा कैपेसिटर लगाकर उससे जोड़ दिया जाता है। पहियों के घूमने पर ऊर्जा उत्पन्ना होकर अल्ट्रा कैपेसिटर में एकत्र होती है। एकत्र ऊर्जा बैटरी के माध्यम से वाहनों के विभिन्ना यंत्रों का संचालन करती है। डा. पटनायक का कहना है कि पीजो इलेक्ट्रिक तकनीक एयरपोर्ट के ट्रैक पर होती है। जैसे ही विमान नीचे उतरता है, पहियों के घूमने से ऊर्जा उत्पन्ना होती है। इससे वहां लाइट जलती है। यहीं से वाहनों के पहियों में पीजो इलेक्ट्रिक तकनीक इस्तेमाल करने के बारे में सोचा गया। शोध के परिणाम भी शत-प्रतिशत रहा। इसे पीजो विल तकनीक नाम दिया गया।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 May 2022

लोकसेवा गारंटी

लोगों को हो रही परेशानियां  छत्‍तीसगढ़ के रायपुर जिले में लोकसेवा गारंटी के 11 फीसद आवेदनों का समय सीमा बीतने के बाद भी हल नही निकला है। जिससे लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। प्रदेश भर में रायपुर का नंबर तीसरे स्थान पर पहुंच चुका है, जबकि सूबे में फरवरी, 2015 से लेकर अब तक दो फीसद से ज्यादा आवेदन लंबित पड़े हुए हैं। सबसे ज्यादा आवेदन नारायणपुर जिले में लंबित है। आंकड़ों पर निगाह डालें तो यहां 18 फीसद से ज्यादा आवेदन ऐसे हैं, जो कि समय सीमा के बाद भी लंबित हैं। राहत की बात यह है कि बिलासपुर, सरगुजा, कांकेर और दंतेवाड़ा जिले में एक भी आवेदन समय सीमा के बाद लंबित नहीं है। ई-डिस्ट्रिक्ट रिपोर्ट के अनुसार समय सीमा के बाद भी लोकसेवा गारंटी के लंबित आवेदनों के मामले में सूबे की औसत फीसद 2.29 है, वहीं रायपुर में इस तरह के 11 फीसद आवेदन लंबित हैं। सूबे के रोल माडल राजधानी रायपुर में ही औसत से आठ फीसद से ज्यादा आवेदन समय सीमा बीतने के बाद भी लंबित है। 100 से अधिक प्रकार की सेवाओं की समय सीमा निर्धारित है।   शासन ने सुविधा के लिए विभिन्न् आवेदनों के लिए समय सीमा तय की है। जिसके भीतर ही इनका निराकरण किया जाना है। बावजूद इसके आवेदन लंबित हैं। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 May 2022

बिजली के तार को अंडरग्राउंड किया जायेगा

नगर निगम सड़कों को बनाएगा स्मार्ट  रायपुर को सजाने और सवारने का काम होगा।  रायपुर की सड़कों में  बिजली के तार को अंडरग्राउंड किया जायेगा। इसके साथ ही दर्जन भर ट्रांसफार्मर भी व्यस्थित  किये जायेंगे। नगर निगम के अधिकारियों की निमार्णाधीन स्मार्ट सड़क पर ड्रेनेज सिस्टम, अंडर ग्राउंड केबलिंग, सोलर लाइट, फुटपाथ सहित आवश्यक सुविधाएं विकसित की जायेगी। सड़क में स्मार्ट पोल में सोलर लाइट, सीसीटीवी कैमरे, वाई-फाई, रोड के बगल में लैंडस्केपिंग समेत कम्युनिकेटिव साइनेज भी लगाया जाना है। शहर की मुख्य सड़कों को स्मार्ट सड़क बनाने की योजना पर काम चल रहा है। शहर की मुख्य सड़कों को स्मार्ट सड़क बनाने की योजना पर काम चल रहा है। वर्तमान में लाखेनगर चौक से आमापारा होते वंदना आटो जीई रोड तक 4.47 करोड़ की लागत से 1.198 किलोमीटर तक स्मार्ट रोड बनाने का काम चल रहा है। इसमें बिजली के तार अंडरग्राउंड होने के साथ ही सड़क, फुटपाथ पर लगे करीब आधा दर्जन से अधिक ट्रांसफार्मरों को व्यस्थित करने की भी योजना है ताकि राहगीरों, वाहन चालकों को आने-जाने में किसी तरह की दिक्कत न हो। शहर को स्मार्ट बनाने के लिए रायपुर स्मार्ट सिटी, नगर निगम और बिजली विभाग मिलकर काम कर रहा है। रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड ने अपने द्वारा बनाई जा रही इन सड़कों को 'स्मार्ट इसलिए कहा है, क्योंकि यहां शहर के बाकी सड़कों की तरह बिजली के तार फैले हुए नहीं होंगे। इन सड़क के किनारे खुले में दिखने वाली बजबजाती नालियां नहीं होंगी। इन स्मार्ट सड़कों पर सड़क और फुटपाथ के बीच का अंतर भी दिखेगा। सोलर लाइट भी लगी होगी। यानि राजधानी की प्रतिष्ठा अनुरुप सड़क बनाया जा रहा है। सड़कों के लिए कुल 54 करोड़ रुपये का बजट रखा गया है। इस साल के अंत तक सभी सड़क स्मार्ट होने से सड़क से तारों का जाल हटेगा और सड़क, फुटपाथ पर लगे सभी बिजली ट्रांसफार्मर व्यस्थित हो जाएंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 May 2022

पूर्व सीएम रमन सिंह

 अध्यक्ष पद के लिए नेताओं ने कपड़े सिलवा लिए हैं  छत्तीसगढ़ भाजपा के अध्यक्ष बदलने पर पूर्व मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह का बयान सामने आया है। उन्होंने अपने ही लोगों की चुटकी लेते हुए कहा की अध्यक्ष पद की दौड़ में कई नेता शामिल है। कुछ ने तो कपड़े भी सिलवा लिए हैं। वहीं कांग्रेस ने इसपर कहा की बीजेपी में गुटबाजी चरम पर है। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष बनने की इच्छा पाले बैठे पार्टी के नेताओं पर भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और  पूर्व मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह ने निशाना साधा  है। रमन सिंह जयपुर में आयोजित राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक में शामिल होने  गए थे। उन्होंने कहा वर्तमान टीम का कार्यकाल अभी बहुत बाकी है। कई लोग अध्यक्ष बनने की इच्छा पाले हुए हैं। अब अध्यक्ष बनने की इच्छा किसको नहीं होती, कुछ तो कपड़े भी सिलवा लिए हैं। इस दौरान उन्होंने सीएम भूपेश बघेल पर भी निशाना साधा।  एक सवाल  के जवाब में उन्होंने कहा कि देश और दुनिया में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के चेहरे का जादू है। शायद इसे भूपेश बघेल नहीं जानते हैं।   इसीलिए कांग्रेस की हालत खराब है। कांग्रेस की नीति और सोच के चलते ही आज कांग्रेस सभी राज्यों से खत्म होती जा रही है। उन्होंने कांग्रेस नेता राहुल गांधी को आड़े हाथों लिया और कहा की  ...  इनके निगाह में हमेशा देश  के जलने की ही कल्पना होती है। कांग्रेस का 50 वर्षों से यही एजेंडा है लोगों को भड़काना, उनके मन में डर पैदा करना है, ताकि लोग कांग्रेस से जुड़े। गौरतलब है की लंदन में राहुल गाँधी ने कहा था की भाजपा ने पूरे देश में केरोसिन छिड़क दिया है, एक चिंगारी से आग भड़क सकती है।  उधर कांग्रेस ने भाजपा को लेकर कहा कि भाजपा में इन दिनों गुटबाजी चरम पर है।  राज्य में इस समय भाजपा नेतृत्व के संकट से जूझ रही है और पार्टी में नेता दिन-रात एक दूसरे को नीचा दिखाने की जुगत में लगे रहते हैं।  नेता में आपस में नहीं बनती।  सब बटे हुए हैं। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 May 2022

रायपुर

राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत मिलेगा लाभ  शनिवार को रायपुर जिले के एक लाख 18 हजार किसानों के खातों में 76 करोड़ रुपये डाले जाएंगे। रायपुर जिले प्रभारी मंत्री रविन्द्र चौबे ने बताया की राशि  राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत दी जाएगी।  शनिवार को रायपुर जिले के एक लाख 18 हजार किसानों के खातों में 76 करोड़ रुपये डाले जाएंगे। कार्यक्रम शहीद स्मारक भवन में आयोजित किया जाएगा। इसके साथ ही महिला स्वसहायता समूहों की सामग्रियों की बिक्री के लिए सी मार्ट बनाया जाएगा। चौबे ने शासन की प्राथमिकता वाली विभिन्ना योजनाओं के क्रियान्वयन की समीक्षा की। उन्होंने विभागीय अधिकारियों से कहा कि अपने विभाग में संचालित जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ ज्यादा से ज्यादा नागरिकों को समय पर दिलाना सुनिश्चित करें। समय सीमा अंतर्गत निराकृत किये जाने वाले राजस्व प्रकरण, नजूल पट्टों पर भूस्वामी अधिकार दिए जाने संबंधी आवेदनों के निराकरण, लोक सेवा गारंटी अधिनियम अंतर्गत प्राप्त आवेदनों का निराकरण, निकायों की संपत्ति के विक्रय से प्राप्त आय, ग्रामीण औद्योगिक पार्क की स्थापना, सी-मार्ट की स्थापना, आगामी खरीफ सीजन में धान के बदले अन्य फसलों को बढ़ावा जैसे महत्वपूर्ण योजनाओं के क्रियान्वयन की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि खाद्य विभाग के अधिकारी राशन दुकानों का आकस्मिक निरीक्षण भी करें। महिला स्वसहायता समूह द्वारा बनाई गई वस्तुओं की बिक्री के लिए सी मार्ट बनाया जाए। खारुन नदी के किनारे पौधारोपण करने, कृष्ण वाटिका बनाने को भी कहा गया है । मंत्री चौबे ने  कहा कि चारों उपचुनाव जीतने के बाद कांग्रेस के पास 71 सींटें हैं। अगले चुनाव में भी हमारा टारगेट यही है.  सरकारी  योजनाएं भी उपलब्धियों वाली हैं। इन्हें जनता पसंद कर रही है। जहां तक भाजपा का सवाल है, वह चिंता करे। वो कांग्रेस के बारे में न सोचे।  इस बार भी जनता कांग्रेस को ही पसंद करेगी। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 May 2022

raipur, Central government, path of Sri Lanka, Congress

  रायपुर। देश को श्रीलंका की राह पर केंद्र सरकार ले जा रही। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा है कि अनर्थशास्त्र और वित्तीय कुप्रबंधन का सबसे बड़ा उदाहरण तो केंद्र सरकार है, जहां विगत 8 वर्षों में देश पर कुल कर्जा तीन गुना बढ़ा है। नोटबंदी और बिना तैयारी के आधे-अधूरे जीएसटी जैसे अव्यावहारिक फैसलों के चलते महंगाई और बेरोजगारी चरम पर है। केंद्र में हम दो और हमारे दो कि अधिनायकवादी सरकार चल रही है। मोदी सरकार में केवल चंद पूंजीपतियों के मुनाफे पर केंद्रित योजनाएं बनाई जा रही है। पूंजीपतियों के लाखों करोड़ के लोन राइट-ऑफ किए जा रहे हैं। केंद्र की सत्ता के संरक्षण में बैंकफ्रॉड बढ़ रहें हैं। बैंक, बीमा, रेलवे, बंदरगाह, नवरत्न कंपनियां, देश के संसाधन ओने-पौने दाम पर बेची जा रही है। एक तरफ जीएसटी का कलेक्शन रिकॉर्ड स्तर पर है फिर भी राज्यों को उनके अधिकारों की राशि नहीं दी जाती। 85 प्रतिशत आम जनता की आय घट रही है, लेकिन प्रधानमंत्री के इर्द-गिर्द रहने वाले मित्रों की संपत्ति 20 महीने में 18 गुना बढ़ रही है। विदेशों में भेजा जाने वाला धन तेजी से बढ़ रहा है। भुखमरी इंडेक्स में लगातार बिछड़ते जा रहे हैं। देश में बढ़ती महंगाई बेरोजगारी और असमानता के लिए केंद्र सरकार की गलत नीतियां ही जिम्मेदार है लेकिन धरमलाल कौशिक और भारतीय जनता पार्टी के नेताओं में इतना साहस नहीं है कि वे कह सके कि मोदी सरकार की गलत आर्थिक नीतियां देश को श्रीलंका के वित्तीय हालत की दिशा में धकेल रही है। श्रीलंका में कुल कर्ज जीडीपी का लगभग 113 परसेंट है। मोदी के कुशासन में भी देश को उसके ही आसपास पहुंचा दिया गया है परंतु दलीय चाटुकारिता के चलते समृद्ध होते छत्तीसगढ़ पर धरमलाल कौशिक अनर्गल बयानबाजी कर रहे हैं।   मोहन मरकाम ने कहा कि छत्तीसगढ़ और छत्तीसगढ़िया की समृद्धि से धरमलाल कौशिक और छत्तीसगढ़ के भारतीय जनता पार्टी के नेताओं को पीड़ा है। 15 साल के शासन में भ्रष्टाचार और कमीशनखोरी के चलते छत्तीसगढ़ को 42,000 करोड़ के कर्ज में डुबाने आने वाले हैं भाजपाई भूपेश बघेल सरकार के वित्तीय अनुशासन और प्रबंधन पर तथ्यहीन आरोप लगा रहे हैं। 2003 में जब रमन सिंह की सरकार आई तब प्रदेश पर कोई कर्जा नहीं था बल्कि सरप्लस फंड था। छत्तीसगढ़ में जल, जंगल, जमीन, बिजली, पानी, खनिज सहित सभी संसाधनों की प्रचुरता के बावजूद रमन राज के 15 साल के कुशासन में छत्तीसगढ़ को गरीबी रेखा में नंबर वन बनाया गया, राष्ट्रीय औसत से लगभग दुगुने। फिर भी 42,000 करोड का कर्ज विरासत में देकर गए जिसका ब्याज और मूलधन भी भूपेश बघेल सरकार पटा रही है। वर्तमान में छत्तीसगढ़ सरकार पर कुल कर्ज केंद्र सरकार द्वारा रोकी गई छत्तीसगढ़ के हक और अधिकार की राशि 55,000 करोड़ रुपये से कम है और आरबीआई के द्वारा तय सीमा के भीतर है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  15 May 2022

raipur, Rule of law, Chhattisgarh, Congress

  रायपुर। प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने शनिवार को प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदेव साय के बयान पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा है कि छत्तीसगढ़ में पंद्रह साल तक भाजपा ने अपराधी राज चलाया। भ्रष्ट कमीशन मंडली ने तरह तरह के अपराधी गिरोहों की गाजरघास पैदा कर दी थी। जिसे भाजपा सरकार के साथ ही उखाड़ कर फेंका जा चुका है। तब छत्तीसगढ़ में अपराधी पकड़े नहीं जाते थे। अब छत्तीसगढ़ में किसी भी तरह के अपराधी बच नहीं सकते। कांग्रेस सरकार में कर्मठ पुलिस किसी भी अपराध के मामले में आरोपित की जल्द से जल्द पतासाजी करके उसे कानून की गिरफ्त में लाती है। छत्तीसगढ़ में कानून का राज है। भाजपा अपना जंगल राज याद कर रही है और बेबुनियादआरोप कांग्रेस पर लगाने की धूर्तता दिखाती है।   सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भाजपा के राज में झलियामारी जैसे कांड होते थे तब इनके पूज्य सरसंघचालक मोहन भागवत कहा करते थे कि इंडिया में दुष्कर्म होते हैं, भारत में नहीं। तब वह यह नहीं बताते थे कि छत्तीसगढ़ का झलियामारी भारत है कि नहीं। भाजपा के राज में छत्तीसगढ़ की हजारों बेटियां लापता हो गईं तब क्या रमन सिंह सहित सभी भाजपा नेता गांधारी बने थे या धृतराष्ट्र? उन्होंने कहा कि भाजपा अपनी दुर्दशा की चिंता करे। छत्तीसगढ़ की चिंता मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अच्छी तरह कर रहे हैं। हमारी सरकार ने छत्तीसगढ़ की संस्कृति के अनुरूप नवा छत्तीसगढ़ गढ़ दिया है। छत्तीसगढ़ की जनता के हर वर्ग में खुशहाली आई है तो भाजपा के होश उड़ गए हैं और बदहवास भाजपा नेता आधारहीन तथा घटिया बयानबाजी कर रहे हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  15 May 2022

raipur, Chhattisgarh Armed Force, jawan injured , IED blast

  रायपुर। बीजापुर जिले में एरिया डोमिनेशन के दौरान नक्सलियों द्वारा लगाए गए आईईडी में ब्लास्ट होने से छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल (सीएएफ) 8वीं वाहिनी का एक जवान गंभीर रूप से घायल हो गया। एएसपी पंकज शुक्ला ने बताया कि घायल जवान को नेलसनार में प्राथमिक उपचार के बाद एयरलिफ्ट कर रायपुर भेजा गया है।   एएसपी ने बताया कि जिले के बांगापाल थानांर्गत सीएएफ के जवान नेलसनार के हेमलापारा की तरफ एरिया डाोमिनेशन पर निकले थे। इंद्रावती नदी के किनारे बंगोली घाट के पास आरक्षक रामनाथ मौर्य का पैर आईईडी के ऊपर पड़ गया। इसके बाद जोरदार धमाका हुआ।इस धामके में जवान के दोनों पैरों में गंभीर चोटें आयी हैं। साथी जवान घायल को नेलसनार के अस्पताल ले गए। यहां प्राथमिक उपचार के बाद एयर लिफ्ट कर रायपुर भेज दिया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  15 May 2022

raipur, Girl student burnt , death due,fire in Paravat

  रायपुर / बेमेतरा। छत्तीसगढ़ के बेमेतरा जिले के ग्राम दर्री में शनिवार की देर रात शौचालय के पास रखे पैरावट में आग लग गई। हादसे में शौचालय गई 12वीं की छात्रा की जलकर मौत हो गई। पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक दर्री गांव की खिलेश्वरी यादव शनिवार की देर रात शौचालय गयी थी, उसी दौरान शौचालय के बगल में रखे पैरावट में भीषण आग लग गई। आग की तेज लपटें जल्द ही शौचालय तक पहुंच गयी। शौचालय के गेट पर आग की लपटों में छात्रा खिलेश्वरी बुरी तरह फंस गयी, जिसकी वजह से उसकी जिंदा जलकर मौत हो गयी। इधर परिजनों को जब आग लगने की खबर लगी तो उन्होंने आग को बुझाने की कोशिश की, लेकिन तब तक खिलेश्वरी की मौत हो चुकी थी। वहीं घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस मामले की जांच कर शव पोस्टमार्टम के लिए भेज आगे की कार्रवाई में जुटी है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  15 May 2022

raipur, Chhattisgarh Board , Secondary Education

रायपुर। माध्यमिक शिक्षा मंडल ने 10वीं व 12वीं 2022 का रिजल्ट जारी कर दिया हैं। स्कूल शिक्षा मंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम ने शनिवार को दोपहर 12 बजे रायपुर में मंडल के कार्यालय में परिणाम जारी किया। इस बार दसवीं की परीक्षा में 74.23 प्रतिशत छात्र उत्तीर्ण हुए। वहीं 12वीं की परीक्षा में 79.30 प्रतिशत छात्र पास हुए। 10वीं में रायगढ़ की सुमन पटेल, कांकेर की सोनाली और 12वीं में रायगढ़ की कुंति साव ने टॉप किया है। रायगढ़ की सुमन पटेल ने 98.67 प्रतिशत के साथ दसवीं में टाप किया है। वहीं कांकेर की सोनाली बाला ने भी टाप किया है। बारहवीं में कुंती साव ने 98.20 प्रतिशत के साथ प्रदेश में टाप किया है। दसवीं की परीक्षा में 74.23 प्रतिशत विद्यार्थी पास हुए, जिनमें लड़कियों का प्रतिशत 78.84 और लड़कों का प्रतिशत 69.7 रहा। 12वीं की परीक्षा में 79.30 प्रतिशत विद्यार्थी पास हुए। इसमें लड़कियों का प्रतिशत 81.15 और लड़कों का प्रतिशत 77.0 3 रहा। पिछली बार कोरोना संक्रमण की वजह से दसवीं की परीक्षा नहीं हुई थी। असाइनमेंट के आधार पर परिणाम जारी किए गए थे। बारहवीं की परीक्षा भी छात्रों ने घर से दी थी। तब जहां छात्र पढ़ते थे, उन्हीं स्कूलों से परीक्षा के लिए उत्तरपुस्तिका और प्रश्नपत्र का वितरण किया गया था। आंसर लिखने के बाद छात्रों ने संबंधित स्कूलों में ही कापियां जमा की। इस बार छात्रों को संबंधित सेंटर में जाकर पेपर लिखना था, जैसा परीक्षा का आम पैटर्न हुआ करता है। शुक्रवार को छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मण्डल ने एग्जाम से जुड़े कंफ्यूजन दूर करने के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किया था। इसमें विद्यार्थी, शिक्षक और पैरेंट्स सुबह 10.30 बजे शाम 5 बजे तक बात कर सकेंगे। टोल फ्री नम्बर 18002334363 जारी किया गया है। इस नंबर पर मनोचिकित्सक, मनोवैज्ञानिक, कैरियर काउंसलर से परीक्षार्थी रिजल्ट के बाद किसी भी तरह की परेशानी पर बात कर सकते हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 May 2022

raipur,Instructions ,high level investigation , helicopter crash

रायपुर। गुरुवार रात रायपुर के स्वामी विवेकानंद एयरपोर्ट पर छत्तीसगढ़ सरकार का हेलिकॉप्टर टेस्टिंग के दौरान क्रैश हो गया। हादसे में छत्तीसगढ़ सरकार के पायलट कैप्टन जी के पांडा और नाइट फ्लाइट ट्रेंनिंग के लिए दिल्ली से आए पायलट कैप्टन एपी श्रीवास्तव की मौत हो गई। एयरपोर्ट अथॉरिटी ने हेलिकाप्टर के ब्लैक बाक्स को कब्जे में ले लिया है। मुख्य सचिव ने दुर्घटना की उच्चस्तरीय जांच के निर्देश दिए हैं। हेलिकॉप्टर 109 पावर एलिट मॉडल का था। यह हेलिकॉप्टर इटैलियन हेलिकॉप्टर मैन्युफैक्चरर कंपनी अगस्ता वैस्ट लैंड का बनाया हुआ था। इसके मेंटेनेंस पर ही बहुत बड़ी राशि खर्च की जा चुकी थी। बुधवार शाम को यह मुख्यमंत्री के हेलिकॉप्टर के साथ ही माना हवाई अड्डे पर उतरा था। कई बार वीआईपी लोगों की जान इस हेलीकॉप्टर से उड़ान के दौरान आई गड़बड़ियों की वजह से आफत में फंस चुकी थी। बताया जा रहा है कि इस हेलीकॉप्टर में 7 लोग बैठ सकते थे। इसे साल 2007 में डॉ. रमन सिंह की सरकार ने खरीदा था। इस हेलिकॉप्टर में दो टरबाइन इंजन थे। इसमें ऑटो पायलट, बेहतर लैंडिंग सिस्टम, नेविगेशन, मौसम रडार सिस्टम जैसी सुविधाएं थीं।   जांच टीम ब्लैक बाक्स के जरिए हादसे के कारणों का पता लगाएगी। सूत्रों के मुताबिक इंजन में आई गड़बड़ी की वजह से ये हेलिकॉप्टर उड़ान के कुछ ही मिनट बाद नीचे आ गिरा। अगस्ता वेस्टलैंड कंपनी का दावा है कि यह एक बेहतर हेलिकॉप्टर रहा है। कंपनी का दावा है कि शहरी क्षेत्रों में और कठिन पहुंच वाले क्षेत्रों में फ्लाइंग के लिए इसे तैयार किया गया है। ये हेलिकॉप्टर 310 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड पर उड़ सकता है। 10,000 फीट की ऊंचाई तक उड़ सकता है। इसे मिलिट्री और रेस्क्यू के इस्तेमाल में भी उड़ाया जाता है। रिकार्ड के अनुसार कई बार इस हेलीकॉप्टर को लेकर उड़ान में असुविधा हुई है और यह दुर्घटनाग्रस्त होते -होते बचा है। इसका इंजन अपनी क्षमता से अधिक उड़ान भर चुका था। एक बार इसका इंजन बदला भी जा चुका था। फरवरी 2016 में डॉक्टर रमन सिंह और केदार कश्यप को लेकर सुकमा से वापस आते समय इस हेलिकॉप्टर का ऑटो पायलट मोड फेल हो गया। उस समय पायलट ने बड़ी मुश्किल से इसे संभाल कर इमरजेंसी लैंडिंग कराई थी। मई 2016 में तत्कालीन कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल को लेकर यह हेलिकॉप्टर नारायणपुर जा रहा था। रास्ते में फ्यूल सप्लाई रुकने से इंजन बंद हो गया। किसी तरह पायलट इसे रायपुर वापस लाया। वर्ष 2017 में बस्तर से रायपुर आते समय हेलिकॉप्टर के पंखे में वाइब्रेशन आ गया। इसकी वजह से यह उड़ नहीं पा रहा था। पायलट ने आनन-फानन में इसे अभनपुर के एक खाली मैदान में उतारा। अगस्त 2019 में मंत्री अमरजीत भगत को लेकर सरगुजा से आते हुए हेलिकॉप्टर का फ्यूल खत्म हो गया। इसकी वजह से कोरबा में आपातकालीन लैंडिंग करनी पड़ी। जून 2021 में भैयाथान में लैंड करते हुए इस हेलिकॉप्टर के शीशे में दरार आ गई थी। उस वक्त उसमें स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव सवार थे। इसके पहले वर्ष 2007 में छत्तीसगढ़ सरकार की मैना हेलिकाप्टर साल्हेवारा के जंगल में क्रैश हुआ था। हादसे में चालक समेत चार लोगों की मौत हुई थी। उल्लेखनीय है कि पिछले वर्ष मुख्यमंत्री ने विधानसभा को बताया था कि दिसम्बर 2018 से जनवरी 2021 तक इस हेलिकॉप्टर के मेंटेनेंस पर 14 करोड़ 65 लाख 15 हजार 41 रुपये खर्च हुए थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 May 2022

raipur, Governor and Speaker, Assembly paid tribute

  रायपुर।हेलीकॉप्टर क्रैश में मृत पायलट गोपाल कृष्ण पंडा एवं अजय श्रीवास्तव को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ,राज्यपाल अनुसूइया उइके, विधानसभा अध्यक्ष चरणदास महंत, नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक समेत कई जनप्रतिनिधियों ने भावभीनी श्रद्धांजलि दी है।कैप्टन गोपाल कृष्ण पंडा का अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ रायपुर में ही किया जाएगा। जबकि एपी श्रीवास्तव के पार्थिव शरीर को उनके निवास स्थान दिल्ली भेजा जा रहा है । दोनों कैप्टन काफी अनुभवी थे।संबलपुर निवासी वरिष्ठ पायलट गोपाल कृष्ण पंडा मूलतः ओडिशा के संबलपुर के पास बहाम गांव के रहने वाले थे। वर्तमान में वो रायपुर में रहते थे। उनकी पत्नी अल्का पंडा यूनिवर्सिटी में एडहॉक प्रोफेसर है। उनके दो बच्चे हैं, जिसमें बड़ी बेटी हैऔर बेटा मुंबई में पढ़ाई करता है। उनके करीबी रहे भिलाई के पत्रकार रघुनंदन पंडा ने बताया की वे बेहद हंसमुख और मिलनसार स्वाभाव के थे भिलाई आते तो अपनी बहन व रिश्तेदारों से जरूर मिलते थे। पायलट एपी श्रीवास्तव दिल्ली से प्रशिक्षण देने के लिए रायपुर आए थे।।एयर फोर्स से सेवानिवृत होने के बाद डीजीसीए में प्रशिक्षक पायलट के तौर पर सेवाएं दे रहे थे। उनकी चिकित्सक पत्नी भी एयर फोर्स से सेवानिवृत होने के बाद दिल्ली में ही प्राइवेट क्लीनिक चला रहीं हैं। बेटी और दामाद भी एयर फोर्स में हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 May 2022

raipur, Chhattisgarh, 10th-12th board result ,May 14

  रायपुर। छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल के 10वीं- 12वीं बोर्ड परीक्षा का परिणाम 14 मई को दोपहर 12 बजे मंडल कार्यालय में जारी किया जाएगा। इस बार परिणाम के साथ मेधावी बच्चों की मेरिट सूची भी जारी होगी। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की घोषणा के अनुसार 10वीं- 12वीं दोनों ही कक्षाओं के टापर्स को हेलीकाप्टर की सैर कराई जाएगी। मेरिट में टाॅपटेन आने वाले परीक्षार्थियों को पुरस्कृत भी किया जाएगा। इस बार ऑफलाइन मोड पर स्कूल के परीक्षा केंद्रों पर ही परीक्षा ली गईथी। इस बार परीक्षा में पुनर्मूल्यांकन व पुनर्गणना की पात्रता रखी गई है। जिन परीक्षार्थियों को अपेक्षा के अनुरूप कम अंक मिलेंगे वह अपने अंकों का सुधार करवाने के लिए आवेदन कर सकेंगे। मंडल के अध्यक्ष डा. आलोक शुक्ला ने बताया कि परीक्षा के परिणाम मंडल के कार्यालय में परिणाम जारी होंगे। परिणाम स्कूल शिक्षा मंत्री डा. प्रेमसाय सिंह टेकाम जारी करेंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 May 2022

raipur, State government increased , honorarium

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (मनरेगा) के रोजगार सहायकों का मानदेय 5 हजार रुपये एवं 6 हजार रुपये से बढ़ाकर कलेक्टर दर के अनुसार 9 हजार 540 रुपये करने की घोषणा की है। गुरुवार को मुख्यमंत्री ने अपने निवास कार्यालय पर मिलने आए मनरेगा के रोजगार सहायकों के एक प्रतिनिधिमण्डल से वार्ता के दौरान यह घोषणा की है। मुख्यमंत्री बघेल ने रोजगार सहायकों की सेवा शर्ताें से संबंधित मांगों पर कहा है कि इस संबंध में राज्यस्तर पर गठित समिति से प्रतिवेदन प्राप्त होने के बाद ही कोई निर्णय लिया जाएगा। इस मौके पर उद्योग मंत्री कवासी लखमा भी उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 May 2022

raipur, High Court granted ,conditional bail , suspended ADG

  रायपुर। बहुचर्चित एवं विवादास्पद, 120 दिन से जेल में बंद निलंबित आईपीएस, एडीजी जीपी सिंह को बिलासपुर हाई कोर्ट ने गुरुवार को सशर्त जमानत दे दी है। आय से अधिक संपत्ति के मामले में गिरफ्तार एडीजी जीपी सिंह ने हाई कोर्ट से जमानत नहीं मिल पाने के कारण जीपी सिंह सुप्रीम कोर्ट में अर्जी लगाई थी। सुप्रीम कोर्ट ने हाई कोर्ट को जमानत याचिका पर शीघ्र सुनवाई करने का आदेश दिया था। गुरुवार दोपहर जीपी सिंह के अधिवक्ता आशुतोष पांडेय ने जमानत पर बहस करते हुए कहा कि प्रदेश के एक सीनियर आईपीएस को नियम विरुद्ध तरीके से केस दर्जकर उन्हें गिरफ्तार किया गया। नियमानुसार किसी भी आईपीएस अफसर के खिलाफ केस दर्ज करने से पहले केंद्र सरकार से अनुमति लेना आवश्यक है। लेकिन उनके मामले में ऐसा नहीं किया गया। उन्होंने कोर्ट से कहा कि अभियोजन की स्वीकृति नहीं हुई है। इसके बावजूद उन्हें 120 दिन से जेल में बंद रखा गया। सुप्रीम कोर्ट ने भी उनके केस की जल्दी सुनवाई करने का आदेश दिया। तीन माह से ज्यादा समय से जमानत याचिका लंबित है। बहस के बाद जस्टिस दीपक तिवारी ने जीपी सिंह को सशर्त जमानत देने का आदेश दिया। ईओडब्ल्यू की टीम ने उन्हें 11 जनवरी को नोएडा (उत्तर प्रदेश) से गिरफ्तार किया था। इसके बाद उन्हें सात दिन के लिए पुलिस रिमांड पर रखा गया था। 18 जनवरी को उन्हें विशेष अदालत में पेश किया गया। जहां से उन्हें न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 May 2022

raipur,Chhattisgarh Ranji cricket team, captain booked for cheating

  रायपुर। छत्तीसगढ़ रणजी क्रिकेट टीम के कप्तान एवं इंडियन प्रीमियर लीग में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर, कोलकाता नाइट राइडर्स और दिल्ली कैपिटल्स की टीम के लिए कई मैच खेलने वाले हरप्रीत सिंह भाटिया पर विधानसभा थाने में धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया है। हरप्रीत सिंह भाटिया ने नौकरी पाने के लिए फर्जी मार्कशीट का उपयोग किया था। भारतीय लेखा परीक्षा कार्यालय ने उनके खिलाफ विधानसभा थाने में मामला दर्ज करवाया है।विधानसभा थाना प्रभारी संजीव मिश्रा ने गुरुवार को बताया कि शिकायत के आधार पर जांच की गई और आरोपित पर अपराध दर्ज किया गया है ।   जानकारी के अनुसार हरप्रीत सिंग भाटिया ने वर्ष 2014 में क्रिकेट संवर्ग से लेखा परीक्षक , लेखापाल पद पर भर्ती के लिए आवेदन किया था। फिल्ड ट्रायल के लिए हरप्रीत सिंह भाटिया का भी चयन किया गया था। इसमें हरप्रीत सिंग भाटिया मूल दस्तावेजों के साथ उपस्थित हुए थे। हरप्रीत ने अपना स्वीकृति पत्र भी प्रस्तुत किया था। जिसके बाद कार्यालय के द्वारा सभी चयनित उम्मीदवारों के शैक्षणिक योग्यता प्रमाण पत्र जांच के लिए प्रमाण पत्र जारी करने वाली संस्थाओं को उनकी सत्यता के भेजा गया था। जांच में पता चला कि हरप्रीत सिंह भाटिया ने जो बुंदेलखंड विश्वविद्यालय की डिग्री दी है, वह फर्जी है। इसके बाद महालेखाकर भवन ने उनके खिलाफ विधानसभा थाने में धोखाधड़ी का मामला दर्ज करवाया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 May 2022

raipur, Security forces defused, five kg IED bomb

  रायपुर।बस्तर संभाग के नक्सल प्रभावित बीजापुर जिले में गुरुवार को सुरक्षा बलों ने नक्सलियों के लगाए गए पांच किलो आईईडी बम को बरामद किया है। जानकारी के मुताबिक, आईइडी फुंडरी में इंद्रावती नदी पर बन रहे पुल के पास मिला है। यह सुरक्षा बलों को मारने लिए के लिए प्लांट किया गया था। इस आईईडी को सुरक्षित तरीके से निष्क्रिय कर दिया गया है। बीजापुर के एएसपी पंकज शुक्ला ने इस घटना की पुष्टि की है।   एएसपी पंकज शुक्ला ने बताया कि आईईडी की सूचना पर सीआरपीएफ व जिला पुलिस की संयुक्त टीम गश्त सर्चिंग, डिमाइनिंग पर रवाना हुए थे। अभियान के दौरान ग्राम फुंडरी में इंद्रावती नदी पर निर्माणाधीन पुल के पास बंगोली की ओर जाने वाले मार्ग पर नक्सलियों द्वारा लगाए गए प्रेशर कुकर आईईडी लगभग पांच किग्रा. को बरामद कर बीडीएस टीम द्वारा मौके पर निष्क्रिय किया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 May 2022

raipur, Muslim youth ,accused , taking away Hindu girl

रायपुर/दंतेवाड़ा। छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में मुस्लिम समुदाय के एक युवक पर जगदलपुर की हिंदू लड़की को भगा ले जाने का आरोप लगा है। मामले को लेकर बुधवार को दंतेवाड़ा शहर में दिन भर तनाव रहा। पुलिस मामले की नजाकत को समझते हुए किसी अप्रिय घटना को रोकने के लिए मुस्तैद है। मामले में दंतेवाड़ा के एसडीएम अविनाश मिश्रा ने बताया कि युवती का बयान ले लिया गया है। युवती ने बताया कि वह अपनी स्वेच्छा से युवक के घर आई थी। दोनों एक-दूसरे से शादी करना चाहते हैं। जब तक शादी नहीं होती तब तक युवती को कोंडागांव नारी निकेतन में रखा जाएगा। इसके लिए वह राजी हो गई है। युवती के परिवार वालों का कहना है कि दोनों की अभी शादी नहीं हुई है। उनके बेटी को परिवार वालों के सुपुर्द किया जाए। भाजपा जिला अध्यक्ष और विश्व हिंदू परिषद के सदस्य चैतराम अटामी ने कहा कि यह लव जिहाद का मामला है। इसके विरोध में दंतेवाड़ा नगर बंद है। पुलिस के अनुसार दंतेवाड़ा बस स्टैंड के पास रहने वाले युवक मोहम्मद तंजिल हमीद का जगदलपुर की एक युवती के साथ पिछले कई दिनों से प्रेम प्रसंग चल रहा था। दोनों शादी करना चाहते थे। अफसरों के अनुसार युवती युवक के दंतेवाड़ा स्थित घर पहुंच गई थी। दोनों ने शादी के लिए कोर्ट में अर्जी भी लगाई थी। 17 मई तक दावा आपत्ति का अंतिम दिन था। इस बीच युवती के परिवार के सदस्य समेत हिंदू संगठन के लोग युवती को लेने युवक के घर पहुंच गए थे। इस मामले को लेकर कहीं दंगा न भड़के इसलिए युवक के घर के बाहर समेत जिला मुख्यालय में जगह-जगह पर बड़ी संख्या में जवानों को मुस्तैद किया गया था। जगदलपुर के रहने वाले पाटीदार समाज के अध्यक्ष बाबूभाई पटेल ने बताया कि युवती को समझाने की कोशिश की गई, लेकिन वो परिवार वालों के साथ चलने से मना कर रही है। उसपर दबाव बनाया गया है। प्रशासन ने कोडागांव के नारी निकेतन में रहने की बात की तो वहां रहने के लिए वह मान गई है। उन्होंने कहा कि यदि मुस्लिम समुदाय के लोग लड़की पर दबाव डालेंगे तो हमें फिर से खड़ा होना पड़ेगा। अभी दोनों की शादी नहीं हुई है। कोर्ट की प्रक्रिया चल रही है। भाजपा जिला अध्यक्ष और विश्व हिंदू परिषद के सदस्य चैतराम अटामी ने कहा कि यह लव जिहाद का मामला है। मुस्लिम समुदाय का युवक हिंदू लड़की को भगाकर ले आया है। यह युवक पहले भी विवादों में रहा है। युवती को कहीं बंधक बनाकर रखा गया है। युवती के परिवार वालों ने हिंदू संगठन के लोगों से मदद मांगी है, ताकि युवती को वे अपने साथ घर ले जाएं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 May 2022

raipur,Raipur

रायपुर। रायपुर नगर निगम के पार्षदों और अधिकारियों का एक दल कुछ दिनों पूर्व इंदौर और मोहाली भ्रमण पर गया था। दल ने वहां देखा और पाया कि किस तरह से सफाई व्यवस्था को अंजाम दिया जाता है। दल ने वापस लौटकर महापौर को सारी जानकारी दी, जिसे महापौर ने बुधवार को बैठक लेकर जानकारी साझा किया। उन्होंने बताया कि वहां पोस्टर और बैनर पांच घंटे बाद हटा दिए जाते हैं। सफाई का कार्य तीन बार किया जाता है। महापौर ने बताया कि इंदौर में आठ हजार कर्मचारी हैं जो डोर टू डोर कचरा इकट्ठा करते हैं। वहा हम लोगों ने देखा कि छह प्रकार के कचरे इकट्ठे किए जाते हैं। इंदौर में कोई ठेका प्रथा नहीं है। कर्मचारी लोग सीधा काम कर रहे हैं। इंदौर से एनजीओ बहुत अच्छा काम कर रही है। इंदौर के मुकाबले रायपुर में संसाधन की थोड़ी कमी है, लेकिन आने वाले दिनों में हम उसको भी अच्छा करने का प्रयास करेंगे। आने वाले दो तीन महीने में बहुत कुछ बदलाव रायपुर में नजर आएगा। इस मौके पर नगर निगम के अधिकारी-कर्मचारी मौजूद रहे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 May 2022

raipur, Chief Minister Baghel, gave marriage registration

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बुधवार को भेंट-मुलाकात अभियान के दौरान अम्बिकापुर विश्राम भवन में मुख्यमंत्री मितान योजना के तहत दो नव विवाहित जोड़ों को विवाह पंजीयन प्रमाण पत्र प्रदान कर उन्हें सुखी एवं खुशहाल दाम्पत्य जीवन का आशीर्वाद दिया। उन्होंने अम्बिकापुर नगर निगम क्षेत्र के निवासी अहनन तिर्की और सजू तिर्की तथा अभिषेक जायसवाल और सपना जायसवाल को विवाह पंजीयन प्रमाण पत्र दिया। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मई दिवस पर अपने रायपुर स्थित निवास कार्यालय में मुख्यमंत्री मितान योजना का प्रदेशव्यापी शुभारंभ किया था। इस योजना के माध्यम से सभी नागरिकों विशेषतः बुजुर्गों, दिव्यांगों एवं निरक्षरों को घर बैठे आसानी से 100 प्रकार की सेवाएं घर बैठे ही मिल सकेंगी। अभी वर्तमान में 14 नगर निगमों में 13 प्रकार की सेवा उपलब्ध होगी। नागरिकों को सेवाओं का लाभ निर्धारित समय-सीमा में पूर्ण पारदर्शिता के साथ उनके डोर-स्टेप पर मिलेगा। ’मुख्यमंत्री मितान योजना’ के तहत नागरिकों को मूल निवास प्रमाण पत्र, जाति प्रमाणपत्र, आय प्रमाण पत्र, दस्तावेज़ की नकल, गैर-डिजिटाइज्ड (भूमि रिकॉर्ड आदि की प्रति), मृत्यु प्रमाण पत्र, विवाह पंजीकरण और प्रमाणपत्र, जन्म प्रमाणपत्र, दुकान और स्थापना पंजीकरण, जन्म प्रमाणपत्र सुधार, मृत्यु प्रमाणपत्र सुधार, विवाह प्रमाणपत्र सुधार आदि नागरिक सेवाएं घर बैठे मिलेंगी। इस अवसर पर नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया, खाद्य एवं संस्कृति मंत्री अमरजीत भगत, विधायक डॉ. प्रीतम राम, राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष किरणमयी नायक सहित अधिकारीगण एवं आम नागरिक उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 May 2022

raipur, High Court stays investigation , Jhiram Ghati massacre

रायपुर। बिलासपुर हाई कोर्ट ने झीरम घाटी हत्याकांड की नए सिरे से जांच के लिए गठित दूसरे आयोग के कामकाज पर बुधवार को अगली सुनवाई तक रोक लगा दी है। हाई कोर्ट ने नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक की याचिका पर यह प्रतिबंध लगाया है। याचिका की सुनवाई चीफ जस्टिस अरूप कुमार गोस्वामी और जस्टिस आरसीएस सामंत ने की। हाई कोर्ट राज्य सरकार और आयोग को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। अगली सुनवाई अब 04 जुलाई को होगी। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने याचिका में कहा है कि जस्टिस प्रशांत मिश्रा आयोग की जांच रिपोर्ट अब तक शासन ने विधानसभा के पटल पर नहीं रखी है। इस पर चर्चा भी नहीं हुई है। झीरम घाटी हत्याकांड के तत्काल बाद राज्य सरकार ने छत्तीसगढ़ हाई कोर्ट के जस्टिस प्रशांत मिश्रा की अगुवाई में जांच आयोग का गठन किया था। आयोग ने आठ साल तक साक्ष्य जुटाने के बाद रिपोर्ट राज्यपाल को सौंपी। याचिका के मुताबिक छत्तीसगढ़ सरकार ने दोबारा जांच के लिए 11 नवंबर, 2021 को दो सदस्यीय (रिटायर्ड जस्टिस सुनील अग्निहोत्री और जस्टिस मिन्हाजुद्दीन) न्यायिक जांच आयोग का गठन किया। नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने तीन बिंदुओं पर आपत्ति जताई है। इसमें वैधानिक दुर्भावना, पहले जांच आयोग की रिपोर्ट को छह महीने के भीतर विधानसभा में पेश नहीं किया जाना और एक ही घटना और मुद्दे पर दोबारा जांच की अनुमति नहीं होना शामिल है। हाई कोर्ट ने याचिकाकर्ता का पक्ष जानने के बाद अगली सुनवाई तक दूसरे आयोग के कामकाज पर रोक लगादी है। याचिकाकर्ता की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता महेश जेठमलानी और विवेक शर्मा ने पक्ष रखा। उल्लेखनीय है कि वर्ष 2013 में छत्तीसगढ़ कांग्रेस के तत्कालीन प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार पटेल के नेतृत्व में परिवर्तन रैली का आयोजन किया गया था। 25 मई, 2013 की शाम करीब 4 बजे झीरम घाटी के पास नक्सलियों के हमले में 29 लोगों की मौत हो गई थी। इस वीभत्स हत्याकांड में कांग्रेस ने अपनी पहली पंक्ति के नेताओं विद्याचरण शुक्ल, नंद कुमार पटेल और महेंद्र कर्मा को खोया था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 May 2022

raipur, Chief Minister inspects, Katkalo water treatment plant

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल मंगलवार को अपने भेंट-मुलाकात अभियान के दौरान सरगुजा जिले के लुण्ड्रा विधानसभा के ग्राम कतकालो पहुंचे। उन्होंने कतकालो में नवनिर्मित जल शोधन संयंत्र का निरीक्षण किया और प्रांगण में अनार के पौधे का रोपण भी किया। इस अवसर पर नगरीय प्रशासन एवँ विकास मंत्री डॉ. शिव कुमार डहरिया, लुण्ड्रा विधायक डॉ. प्रीतम राम, अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू एवँ अधिकारीगण भी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री बघेल को वहाँ उपस्थित अधिकारियों ने बताया कि लगभग 434.40 लाख रुपये की लागत से बने इस जल शोधन संयंत्र की क्षमता 15 एमएलडी की है। जिससे लगभग 75 हज़ार जनसंख्या को शुद्ध पेयजल प्रदाय किया जा रहा है और 6 उच्च स्तरीय जलागारों का भराव होता है। उन्होंने मुख्यमंत्री को बताया कि यह संयंत्र मिशन अमृत- आवर्धन पेयजल परियोजना के तहत नगर निगम अम्बिकापुर द्वारा संचालित है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 May 2022

raipur, NSUI opens front, against former Chief Minister, Dr. Raman Singh

रायपुर।राजनांदगांव में बीजेपी के कार्यक्रम के दौरान जिस प्रकार कथित तौर पर भारत माता की तस्वीर को जमीन में रखने को लेकर प्रदेश एनएसयूआई ने मोर्चा खोल दिया है। एनएसयूआई ने इसे लेकर बीजेपी और डॉ. रामन सिंह से सार्वजनिक माफी मांगने को कहा है । मंगलवार को जारी बयान में एनएसयूआई के प्रदेश अध्यक्ष नीरज पाण्डेय ने कहा है कि जिस प्रकार राजनांदगांव में भारतीय जनता पार्टी के कार्यक्रम के दौरान भारत माता की तस्वीर को जमीन पर रखकर उसका अपमान किया गया उसका प्रदेश एनएसयूआई पुरजोर विरोध करती है और डॉ. रमन सिंह से यह मांग करती है कि वह सार्वजनिक रूप से माफी मांगे नहीं तो आने वाले समय में एनएसयूआई रमन सिंह को पूरे प्रदेश में काले झंडे दिखाकर उनका विरोध करेगी। भारतीय जनता पार्टी का असली चेहरा जनता के सामने आ चुका है ये लोग केवल राष्ट्रवाद की बात करते हैं। भारत माता की तस्वीर का ऐसा अपमान उनके फर्जी राष्ट्रवाद की पोल खोल रहा है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 May 2022

raipur, Due to mismanagement,central government

  रायपुर।केंद्र सरकार के कुप्रबंधन के कारण देश की अर्थव्यवस्था तबाही की ओर जा रही है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा है कि मोदी सरकार के कार्यकाल में भारतीय मुद्रा इतिहास के सबसे निचले स्तर तक गिर चुका है। मोदी सरकार देश की अर्थव्यवस्था नहीं संभाल पा रही है। मंगलवार को जारी अपने बयान में कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि आजादी के बाद भारतीय रूपया अपने सबसे निचले पायदान पर है। आज अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये की कीमत 77.50 हो गई है। 75 साल में रुपये का इतना अवमूल्यन कभी नहीं हुआ । मोदी सरकार में भारतीय रुपया आईसीयू में चला गया है। अब यह भाजपा के मार्गदर्शक मंडल की उम्र को भी क्रॉस कर गया है। मोदी सीएम होते तो सरकार पर निशाना साधते और देशद्रोही बता देते, लेकिन पीएम मोदी चुप है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि कोविड आने से पहले ही 2017 में नोटबंदी और जीएसटी के प्रभाव से देश में कैशफ्लो में 77 प्रतिशत तक कमी आ चुकी थी। उल्टी दिशा में तेजी से भाग रही अर्थव्यवस्था के लिये मोदी सरकार की पूंजीवादी, मुनाफाखोरी और गलत आर्थिक नीतियां ही जिम्मेदार है। अपने चंद पूंजीपति मित्रों को मुनाफा पहुंचाने कोल, पेट्रोलियम, खाद्य तेल जैसे आवश्यक वस्तु का देश के भीतर उत्पादन कम करके आयातित महंगे उत्पादों को खपाने का कुत्सित प्रयास मोदी सरकार कर रही है और इसी कारण लगातार भारतीय रुपया टूट रहा है। सदियों से बांग्लादेश को निर्यात किए जाने वाला चावल भी अब बंद हो गया है। कॉटन यार्न का निर्यात भी तेजी से घटा है। मोदी राज में आयात दिनों-दिन बढ़ रहा है और निर्यात कम हो रहा है जिसके चलते वैश्विक व्यापार संतुलन बिगड़ रहा है।   प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि 2014 में जब केंद्र में कांग्रेस की सरकार थी तब भारतीय मुद्रा 58 रुपये प्रति डॉलर के स्तर पर था। आज भारतीय मुद्रा 77.50 डॉलर के स्तर तक गिर चुका है। मोदी सरकार के 8 साल के शासनकाल में भारतीय मुद्रा लगभग 20 रुपये प्रति डॉलर गिर चुका है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 May 2022

raipur, BJP should apologize , Chief Minister

  रायपुर।मुख्यमंत्री के भेंट मुलाकात कार्यक्रम का एक महिला का आधा अधूरा वीडियो सोशल मीडिया में जारी कर मुख्यमंत्री की छवि बिगाड़ने के प्रयास के लिये कांग्रेस ने भाजपा और पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह से माफ़ी मांगने को कहा है। प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि मुख्यमंत्री के भेंट मुलाकात कार्यक्रम में जिस महिला की बात नहीं सुनने का आरोप भाजपा नेता लगा रहे थे, पूरा वीडियो आने के बाद स्पष्ट हो गया कि मुख्यमंत्री ने न सिर्फ महिला की पूरी बात सुनी उससे प्रति प्रश्न भी किया और उसकी समस्या के निराकरण के परामर्श भी दिया। यही नहीं उन्होंने यह भी कहा कि कोई पुलिस अधिकारी गलत किया है तो उसके खिलाफ एफआईआर भी दर्ज करवाओं अंत में मुख्यमंत्री ने महिला को धन्यवाद भी दिया था।   प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि इसी तरह की हरकतों की वजह से पूर्व में भी रमन सिंह के सोशल मीडिया पोस्ट पर ट्विटर ने मैनिपुलेटेड मीडिया का ठप्पा लगाया था। छत्तीसगढ़ के भाजपा नेता, इनके आईटी सेल के पैड वर्कर और ट्रोल-आर्मी सोशल मीडिया पर षडयंत्रपूर्वक भ्रम फैला रहे हैं। भारतीय जनता पार्टी भूपेश बघेल की लोकप्रियता और उनकी कार्यशैली से घबरा गई है। भूपेश सरकार जिस प्रकार से जन कल्याणकारी योजनायें बनाकर उनका जमीनी स्तर पर प्रभावी क्रियान्वयन करवा रही है उससे भाजपा नेता बौखला गये है। कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि प्रदेश में 15 साल तक मुख्यमंत्री रहे रमन सिंह, उनके मंत्रिमंडल में मंत्री रहे बृजमोहन अग्रवाल, अजय चंद्राकर, भाजपा की प्रभारी पुरंदेश्वरी सहित भाजपा के देश प्रदेश के सभी नेताओं ने जानबूझकर आधा वीडियो सोशल मीडिया में पोस्ट कर मुख्यमंत्री की छवि बिगाड़ने का प्रयास किया है। पूरा वीडियो आने के बाद भाजपाई झूठ का पर्दाफाश हो गया है। भाजपा के नेताओं में थोड़े भी गैरत बची हो तो वे बिना शर्त मुख्यमंत्री से माफी मांगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 May 2022

raipur, Surajpur Zilla Panchayat ,CEO removed

रायपुर।मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बड़ा एक्शन लिया है। जिला पंचायत में भ्रष्टाचार की शिकायत मिलने के बाद राज्य सरकार ने सोमवार को सूरजपुर जिला पंचायत सीईओ की छुट्टी की कर दी है। 2016 बैच के आईएएस अफसर राहुल देव को तत्काल प्रभाव से हटा दिया गया है। राहुल देव को जांजगीर का अपर कलेक्टर बनाया गया है। वहीं लीना कोसम सूरजपुर की नई सीईओ होगी। मुख्यमंत्री टेक आफ होते ही ट्रांसफर का आदेश जारी हो गया है। भेंट मुलाकात कार्यक्रम में मुख्यमंत्री को जिला पंचायत में भ्रष्टाचार और 10 प्रतिशत कमीशन की शिकायत मिली थी। मुख्यमंत्री ने इस दौरान जांच के बाद कार्रवाई की बात कही थी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 May 2022

raipur, Teacher suspended ,registration offense, POSCO Act

  रायपुर। गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही जिले के विकासखण्ड मरवाही के शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला लिटिया सरई में पदस्थ शिक्षक विनोद कुमार राय (एलबी) के विरुद्ध पास्को एक्ट के तहत अपराध पंजीबद्ध होने पर तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है। यह कार्रवाई संयुक्त संचालक शिक्षा संभाग बिलासपुर के द्वारा जिला शिक्षा अधिकारी गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही से इस संबंध में मिले प्रस्ताव पर की गई है। निलंबन अवधि में शिक्षक विनोद कुमार राय (एलबी) का मुख्यालय विकाखण्ड शिक्षा अधिकारी मरवाही निर्धारित किया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 May 2022

raipur, people state , first right ,Congress

  रायपुर। छत्तीसगढ़ के पावर प्लांटों के लिये कोयले की रेक नहीं उपलब्ध करवाने के केंद्र के रवैये का कांग्रेस ने विरोध जताया है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि छत्तीसगढ़ के विद्युत उत्पादन इकाइयों के सामने कोयले का संकट पैदा हो गया है। मोदी सरकार कोयला खदानों से संयंत्रों तक कोयला पहुंचाने के लिये रेक नहीं दे रहा है। भारत की सर्वाधिक कोलरियां हमारे यहां है। छत्तीसगढ़ से देश भर में कोयला जा रहा है। केंद्र सरकार देश के दूसरे राज्यों में कोयला परिवहन के लिये भरपूर मात्रा में रेलवे के वैगन दे रहा है लेकिन छत्तीसगढ़ के विद्युत उत्पादन इकाइयों के साथ सौतेला व्यवहार किया जा रहा है। देशभर में कोयला पहुंचाने के नाम पर रेलवे ने छत्तीसगढ़ की 50 से अधिक यात्री ट्रेनों को भी बंद कर दिया है। छत्तीसगढ़ के नागरिको की यात्रा सुविधाओं को केंद्र ने बंद कर दिया है। मोहन मरकाम ने कहा कि छत्तीसगढ़ में कोयला प्रचुर मात्रा में है और छत्तीसगढ़ से कोयला देश के कई राज्यों को जाता है, उसके बावजूद केंद्र सरकार के अन्यायपूर्ण रवैये के कारण प्रदेश में पहली बार कोयला संकट जैसी स्थिति उत्पन्न हो रही है। छत्तीसगढ़ के कोयले पर पहला अधिकार छत्तीसगढ़ वासियों का है। एसईसीएल लगातार कोयला उत्पादन बढ़ा रहा है मगर उसके बावजूद उसमें से ज्यादातर कोयले की आपूर्ति प्रदेश के बाहर की जा रही है। केंद्र सरकार के षडयंत्र पूर्ण रवैये के कारण प्रदेश के पावर प्लांटों के पास अधिकतम 10 दिन का कोयला ही बचा हुआ है। केंद्र द्वारा प्रायोजित ढंग से छत्तीसगढ़ के साथ की जा रही कोयले की इस लूट के कारण छत्तीसगढ़ में बहुत जल्दी बिजली और कोयले का संकट निर्मित हो सकता है। भारत विश्व के पांचवें नंबर का कोयला उत्पादक देश है जिसके पास 319 अरब टन कोयला के भंडार हैं। आजादी के बाद से देश में यह पहली उद्योगपतियों की चाकरी करने वाली सरकार आई है, जिसके राज में देश कोयला संकट देख रहा है। देश की अधिकतर बिजली ताप विद्युत संयंत्रों में बनती है और इन संयंत्रों में मुख्य रूप से कोयले का उपयोग होता है। मोदी सरकार को जब यह बातें मालूम थी तो उन्होंने पहले से ही कोयले के खनन, भंडारण और प्रबंधन के लिए पहले से ही कार्य योजना क्यों नहीं बनाई? आज देश में कोयला संकट जैसी स्थिति केंद्र सरकार के कारण बनी है। कोयला संकट संयोग के बजाय प्रयोग भी हो सकता है। इस प्रकार अचानक पैदा हुआ संकट किसी षड्यंत्र की ओर इशारा कर रहा है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 May 2022

raipur, Corona vaccination ,figure crosses ,four crore, Chhattisgarh

  रायपुर। छत्तीसगढ़ में सात मई तक कोरोना से बचाव हेतु कुल चार करोड़ चार लाख चार हजार 333 टीके लगाए गए हैं। इनमें से दो करोड़ 18 लाख 11 हजार 092 टीके प्रथम डोज के रूप में, एक करोड़ 80 लाख 97 हजार 282 द्वितीय डोज के रूप में और चार लाख 95 हजार 959 टीके प्रीकॉशन डोज के तौर पर लगाए गए हैं। प्रदेश में 18 वर्ष से अधिक आयु की 87 प्रतिशत आबादी को कोरोना से बचाव का दोनों टीका लगाया जा चुका है। वहीं 15 वर्ष से 18 वर्ष के 51 प्रतिशत किशोरों को इसका दोनों टीका लगाया जा चुका है। प्रदेश में 12 वर्ष से 14 वर्ष के एक लाख 78 हजार 760 बच्चों को भी दोनों टीका लगाया जा चुका है। राज्य में 18 वर्ष से अधिक के एक करोड़ 70 लाख 82 हजार 851 नागरिकों और 15 वर्ष से 18 वर्ष के आठ लाख 35 हजार 671 किशोरों को कोरोना से बचाव के लिए टीके की दोनों खुराकें दी जा चुकी हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 May 2022

raipur, Chandan,assistance, two lakh rupees

रायपुर। मुख्यमंत्री बघेल से सोमवार को छत्तीसगढ़ के सूरजपुर जिला के सर्किट हाउस में फाइटिंग गेम खिलाड़ी चंदन कुमार ने मुलाकात की। 18 वर्षीय रुनियाडीह निवासी चंदन वुशु, थोडा, थांगता, एथेलिमा जैसे फाइटिंग गेम्स का खिलाड़ी है। चंदन ने राष्ट्रीयस्तर की कई प्रतियोगिताओं में छत्तीसगढ़ का प्रतिनिधित्व किया है। थोडा खेल में हिमाचल प्रदेश के शिमला में चंदन ने दूसरा स्थान प्राप्त किया था। चंदन में मुख्यमंत्री से मिलकर कहा कि गरीब किसान परिवार का बेटा हूं। छत्तीसगढ़ की तरफ से नेशनल कंपीटिशन में खेलने जाने का खर्चा ज्यादा होता है। राष्ट्रीय प्रतिस्पर्धाओं में चयन होने के बाद भी खुद के खर्च पर खेलने जाना संभव नहीं हो पा रहा है। चंदन ने बताया कि 11 मई को रायपुर में पंकरेशन एथेलिमा की स्पर्धा में खेलने जाना है। उसने मुख्यमंत्री से खेलने जाने के लिए और ठहरने आदि के लिए सहायता उपलब्ध कराने की मांग की। इस दौरान मुख्यमंत्री बघेल ने चंदन को तत्काल दो लाख रुपये सहायता राशि देने अधिकारियों को निर्देश दिये।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 May 2022

raipur, No action ,officials , Leader of Opposition

रायपुर । नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा है कि इवेंट मैनेजमेंट कर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल केवल वाहवाही लूट रहे हैं।केवल मात्र प्रायोजित कार्यक्रमों में ही वाहवाही लूटने में व्यस्त है। एक ओर छोटे कर्मचारियों पर कार्रवाई कर रहें हैं और जिम्मेदार अधिकारियों पर कुछ भी कार्रवाई नहीं कर रहे हैं।   मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पूरे प्रदेश में जिस तरह से यात्रा कर रहे हैं ,उनका हर दृश्य मुन्ना भाई एमबीबीएस फिल्म की तरह है। जब प्रदेश में गर्मी की छुट्टी घोषित की गई है,तब बच्चें स्कूल कैसे जा रहे हैं? सारा चीज जब प्रशासन को पता है जिसकी तैयारी आगे से ही कर ली जाती है। जहां – जहां मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जा रहे है। वहां की तस्वीर कुछ और ही है। केवल इवेंट मैनेजमेंट कर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल केवल वाहवाही लूट रहे हैं।   मीडिया को रविवार को जारी बयान में उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में कानून व्यवस्था की जो स्थिति है, वह किसी से छिपी नहीं है।उस पर मुख्यमंत्री बघेल कुछ भी नहीं बोलते हैं और केवल मात्र सांस्कृतिक रूप से भावनात्मक बातें कर सबको भ्रमित कर रहे हैं। राज्य के युवा बेरोजगारी भत्ता की मांग कर रहे हैं तो मुख्यमंत्री उस पर चर्चा करने से बचते है। केवल मात्र प्रायोजित कार्यक्रमों में ही वाहवाही लूटने में व्यस्त है। नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने कहा कि प्रदेश के मंत्री टीएस सिंहदेव खुद की ही सरकार को आईना दिखा रहे हैं और मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री के बीच जो प्रतिस्पर्धा चल रही है, वह किसी से छिपी नहीं है । उन्होने तंज़ कसते हुए कहा कि मुख़्यमंत्री और स्वास्थ मंत्री के बीच वर्चस्व को लेकर 20-20 का मैच चल रहा है । कांग्रेस चुनाव घोषणा पत्र समिति के प्रमुख मंत्री टीएस सिंहदेव ने खुद ही कहा है कि जो वादे किए थे ,हम उसे पूरा नहीं कर पा रहे हैं। इसके साथ ही जिस तरह से उनका अपमान पूरे प्रदेश में उनकी ही पार्टी के विधायक और प्रशासनिक अधिकारी कर रहे हैं। वो सही नहीं है। एक निर्वाचित जन प्रतिनिधि का प्रोटोकॉल होता है। जिसका सम्मान प्रशासन को जरूर करना चाहिए।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  8 May 2022

raipur, Purandeshwari admitted , BJP has neither issues , Congress

  रायपुर। भारतीय जनता की प्रभारी डी पुरंदेश्वरी की पत्रकार वार्ता में उठाये गये विषयों को कांग्रेस ने सतही बताया है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि पुरंदेश्वरी ने मान लिया कि छग भाजपा मुद्दा विहीन नेता विहीन हो गयी है। वह 2023 के चुनाव में भाजपा के 15 साल के काम को लेकर जाने की बात कर रही, जो कामों को जनता ने 2018 में तीन चौथाई बहुमत के साथ नकार दिया था। 15 सालों तक भाजपा ने सिर्फ भ्रष्टाचार और कमीशन खोरी ही किया था, जिससे जनता परेशान हो गयी थी। उन्होंने कहा कि दो दिन के दौरे और पांच संभागीय बैठकों को करने का दावा करने वाली भाजपा प्रभारी कांग्रेस सरकार के खिलाफ एक भी मुद्दा नहीं खोज पाई। यह कांग्रेस सरकार की बड़ी सफलता है सवा तीन साल में विपक्ष मुद्दा विहीन हो गया है। उसके पास सरकार के खिलाफ आंदोलन करने के लिए जनहित के कोई विषय बचे ही नहीं हैं। उसके पास किसान मजदूर युवा जैसे मुद्दों पर आंदोलन करने को कुछ बचा नहीं है। इसलिए वह काल्पनिक मुद्दे पर आंदोलन करने जा रही है। 16 मई को भाजपा उस नियम को लेकर प्रदर्शन करने जा रही है। सरकार में रहने के दौरान जिस नियम को उसने खुद बनाया था और 15 साल तक उसी नियम के आधार पर धरना प्रदर्शन आंदोलन और सार्वजनिक आयोजनों के लिए खुद अनुमति देती थी।   मोहन मरकाम ने भाजपा प्रभारी डी पुरंदेश्वरी से सवाल किया कि जो नियम भाजपा सरकार में लोकतांत्रिक थे कांग्रेस सरकार में वही अलोकतांत्रिक कैसे हो गए? जो नियम भाजपा शासित राज्यों यूपी, गुजरात, हरियाणा केंद्र सरकार के अधीन दिल्ली में लागू है जो छत्तीसगढ़ में रमन सरकार के समय से लागू है भाजपा द्वारा उसको लेकर आंदोलन यह बताता है कि भाजपा अवसरवादी दल है। वह नियमों की व्याख्या अपनी सुविधा के आधार पर करता है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  8 May 2022

raipur, BJP state in-charge , co-in-charge ,reached Chhattisgarh

    रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रभारी डी. पुरंदेश्वरी एवं सह प्रभारी नितिन नबीन दो दिवसीय प्रवास पर शनिवार को छत्तीसगढ़ पहुंचे हैं। इस दौरान प्रदेश प्रभारी डी. पुरंदेश्वरी व सह प्रभारी नितिन नवीन दुर्ग , बिलासपुर और सरगुजा संभाग की बैठक लेंगे एवं कोर कमेटी की बैठक में शामिल होंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 May 2022

raipur, Talks are possible ,Naxalites give up weapons,Chief Minister Baghel

    रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शनिवार को छत्तीसगढ़ के सूरजपुर जिला पहुंचकर एक प्रेसवार्ता में नक्सलियों को लेकर बड़ा बयान दिया है। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि हम नक्सलियों से बातचीत के लिए तैयार हैं, लेकिन पहले वे हथियार छोड़े उसके बाद ही बातचीत संभव है। मुख्यमंत्री ने कहा कि फोर्स के लगातार कड़ी कारवाई की वजह से नक्सली डर गए हैं। उन्होंने कहा कि हमारी योजनाओं से आदिवासी खुश हैं, उससे नक्सली सिमट कर रह गए हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 May 2022

raipur, Work diligently,  Bhupesh Baghel

  रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रतापपुर में अधिकारियों के साथ आयोजित समीक्षा बैठक में कहा कि अधिकारी मुस्तैदी से काम करें और जनता के प्रति जवाबदार बनें। काम में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। मुख्यमंत्री बघेल भेंट-मुलाकात अभियान के तहत कल प्रतापपुर विधानसभा क्षेत्र के भ्रमण के बाद प्रतापपुर पहुंचे थे। बैठक में मुख्यमंत्री ने कहा कि इस इलाके में पानी की कमी की स्थिति है, भूजल स्तर में कमी को दूर करने विशेष ध्यान दें, नरवा का काम तेज़ी से पूरे करें। प्रतापपुर सर्किट हाउस में आयोजित बैठक में नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया, स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू उपस्थित थे। बैठक में मुख्यमंत्री ने बताया कि हेलीकाप्टर से आते समय देखा एक नाला सूख गया है, पर ट्रीटमेंट वाला नाला में पानी है। नरवा योजना के तहत नालों का ट्रीटमेंट तेजी से करें। प्रतापपुर में सरकारी बिल्डिंग में रेन वाटर हार्वेस्टिंग रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि रायपुर शहर के बाद सूरजपुर पहला जिला है, जहां 800 फ़ीट में पानी नहीं। वाटर रिचार्जिंग में ध्यान दें, बिना झिझक के अच्छा काम करें। बघेल ने कहा कि वन भूमि में जिन लोगों का 13 दिसंबर 2005 के पहले से कब्जा है उन सभी को फारेस्ट लेंड पट्टा मिल जाये। भ्रमण के दौरान राजस्व विभाग की शिकायतें मिली, उनका निराकरण करें। पटवारी की शिकायतें ज्यादा हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि आवर्ती चराई के लिए पहाड़ी, बस्ती से दूर गौठान बन रहे है, इस पर अधिकारी ध्यान दें। गांवों के नजदीक गौठान बनाए। गौठान योजना में गड़बड़ी या लापरवाही बर्दाश्त नही की जाएगी। इसी तरह गरीब लोगों के राशनकार्ड अवश्य बनाए जाएं। यदि किसी गरीब को राशन कार्ड न मिले तो ये हमारी गलती है। यदि कोई समस्या है तो अधिकारियों को अवगत कराइये। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से यह भी कहा कि लोगों से उनकी भाषा में बात करिए उनको अच्छा लगेगा। गुड गवर्नेंस का यही तरीका है। बघेल ने कहा कि जिले के प्रभारी सचिव समीक्षा कर यह सुनिश्चित करें कि जितनी भी घोषणाएं की गई हैं, निर्देश दिए गए हैं, वे पूरे हो। शिकायत निवारण के लिए ऑनलाइन कॉल सेंटर खोले जाएंगे। नालाें से बालू की अवैध खुदाई के मामलों में कड़ाई से कर्रवाई की जाएगी। अवैध उत्खनन पर कड़ाई से कार्रवाई होगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 May 2022

raipur, Chief Minister ,offered prayers , Pratappur Shiv Temple

    रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शनिवार को प्रतापपुर स्थित शिव मंदिर में भगवान शिव की पूर्ण विधि-विधान से पूजा-अर्चना कर प्रदेशवासियों की खुशहाली एवं सुख-समृद्धि की कामना की। इस अवसर पर नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया, स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम एवं जनप्रतिनिधिगण भी उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 May 2022

raipur, Chief Minister inaugurated , newly constructed, Kovid Ward

  रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल शनिवार को अपने भेंट-मुलाकात अभियान के तहत सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र प्रतापपुर पहुंचे। उन्होंने स्वास्थ्य केन्द्र में 32 लाख रुपये की लागत से बने 20 बिस्तरीय नवनिर्मित कोविड वार्ड का लोकार्पण किया। बघेल ने वार्ड में कोविड मरीजों के इलाज के लिए उपलब्ध सभी मूलभूत सुविधाओं का जायजा लिया, साथ ही वहाँ उपस्थित मरीजों से मुलाकात कर स्वास्थ्य केन्द्र में मिलने वाली चिकित्सकीय सुविधाओं की भी जनकारी ली। अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को बताया कि इस वार्ड में सामान्य बीमारी के मरीजों को भी भर्ती कर इलाज किया जा सकेगा। इस अवसर पर नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया, स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम एवं अधिकारी-कर्मचारीगण भी उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 May 2022

dantewada, Naxalite spokesperson ,Chief Minister

दंतेवाड़ा। दंडकारण्य स्पेशल जोनल कमेटी के प्रवक्ता विकल्प द्वारा शनिवार को जारी प्रेस नोट में कहा है कि राज्य दौरे पर निकलने के पहले मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा यह घोषणा करना कि भारत के संविधान को मानने और हथियार छोड़ने पर नक्सलियों के साथ वार्ता के लिए वे तैयार हैं, बेमानी है। विकल्प ने राज्य सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि एक तरफ हवाई बमबारी और दूसरी ओर वार्ता की पेशकश, यह दरअसल जनता को दिग्भ्रमित करने एवं नक्सलियों को बदनाम करने की कोशिश के अलावा और कुछ नहीं है। इस वक्तव्य के पीछे और बड़े हमले की साजिश की बू आती है।   उल्लेखनीय है कि 08 अप्रैल को रायपुर के हैलीपैड में मीडिया से चर्चा के दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कोंडागांव को नक्सल सूची से बाहर करने पर खुशी जताते हुए नक्सलियों को बातचीत का न्योता दिया था। जिस पर नक्सलियों ने लगभग एक माह बाद प्रेस नोट जारी कर जवाब दिया है। मुख्यमंत्री के इस न्योते को नक्सलियों ने प्रेस नोट जारी कर वार्ता की पेशकश को सशर्त स्वीकार किया है। इस प्रेस नोट में पीएलजीए पर लगाये गए प्रतिबंध को हटाने, नक्सलियों को खुलेआम काम करने के अवसर दिए जाने, हवाई हमले बंद करने, सशस्त्र बलों के कैंपों को हटाने और जेलों में बंद नक्सल नेताओं को वार्ता के लिए रिहा करने की बात नक्सलियों ने लिखी है। उक्त शर्तों के आधार पर कोई भी सरकार नक्सलियों से वार्ता के लिए तैयार होगी यह संभव ही नहीं है। वास्तव में नक्सलियों ने सशर्त वार्ता की पेशकश कर शासन पर सीधा आरोप लगाकर चुनौती दे रहे हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 May 2022

raipur, Difference between, Bhupesh and Raman

रायपुर। मुख्यमंत्री के दौरे पर रमन सिंह का बयान भाजपा की बौखलाहट को प्रदर्शित कर रहा है। प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भूपेश और रमन के दौरे में फर्क, रमन ब्लैक कैट कमांडो से घिरे रहते थे भूपेश जनता से। रमन सिंह विकास यात्रा निकालते थे, विकास यात्रा के नाम पर अपने वैभव का प्रदर्शन करना और किसान, युवा, महिलाओं, स्कूली बच्चों के ऊपर लाठीचार्ज करवाते थे, दहशत फैलाकर सरकार के कुनीतियों के खिलाफ उठ रही आवाज को कुचलना ही उनका मुख्य उद्देश्य रहता था। भूपेश बघेल योजनाओं की समीक्षा कर रहे, जनसामान्य से मिल रहे, जनप्रतिनिधियों से मिल रहे है, कर्मचारियों, अधिकारियों से मिल कर समस्याओं की जानकारी एकत्रित कर रहे। रमन सिंह तो 15 साल तक जनता से दूर रहे ब्लैक कैट कमांडो के घेरे में उनसे परिंदा भी नहीं मिल सकता था। आज भी मुख्यमंत्री पद से हटने के बाद उनसे आम आदमी से दूर भाजपा का कार्यकर्ता भी नहीं मिल पाते है। भूपेश बघेल से बच्चे, बुजुर्ग, आम आदमी, कार्यकर्ता सभी मिल रहे है। सभी की समस्या का निदान कर रहे सरकारी योजनाओं की समीक्षा कर रहे है। रमन राज में सरकारी दफ्तरों में काम करने की संस्कृति समाप्त हो गयी थी, भूपेश बघेल छत्तीसगढ़ में जवाबदेह सरकार चला रहे। सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि सरकार की सफलता असफलता का फैसला सुनाने वाले रमन सिंह कौन होते हैं? यह अधिकार जनता को है। भूपेश सरकार की योजनाएं जनता के जीवन स्तर में बदलाव ला रही। जनता में सरकार की लोकप्रियता लगातार बढ़ रही है। 2018 में सरकार बनने के बाद कांग्रेस ने चार उपचुनाव जीता, नगरीय निकाय चुनाव के दो चरणों में कांग्रेस जीती, पंचायत चुनाव में भी जनता ने कांग्रेस के प्रत्याशियों को जिताया। यह हार भाजपा के साथ रमन सिंह की भी व्यक्तिगत हार है। हर चुनाव में रमन सिंह स्वयं को भाजपा के चेहरे के रूप में प्रस्तुत किये और जनता ने उन्हें बार-बार नकारा है। सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि नान घोटाला, पनामा पेपर घोटाला, डीकेएस घोटाला, अगस्ता वेस्टलैंड घोटाला, पुष्प स्टील घोटाला करने वाले रमन सिंह कांग्रेस सरकार पर काल्पनिक घोटाले का आरोप लगा कर स्तरहीन आरोप लगा रहे। रमन सिंह और भाजपा पिछले सवा तीन साल में कांग्रेस सरकार पर सवा तीन रू. का भी दस्तावेजी आरोप नहीं लगा पाई है जबकि रमन सिंह पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों के नान डायरी, पनामा पेपर, अगस्ता वेस्टलैंड घोटाले जैसे दस्तावेजी प्रमाण सामने आये थे। इन आरोपों से अभी तक रमन सिंह बरी नहीं हुये हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 May 2022

raipur, entire Bhupesh government ,engulfed in corruptio, Raman

रायपुर। छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने शुक्रवार को पत्रकारवार्ता में प्रदेश सरकार और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के दौरे को लेकर निशाना साधा है। उन्होंने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और मंत्रियों के दौरे पर कहा कि एक यात्रा का मुंह उत्तर दिशा में है और एक दक्षिण दिशा में है। वहीं टीएस सिंहदेव की यात्रा में कलेक्टर-एसपी को प्रतिबंधित किया गया है। साढ़े तीन साल की कांग्रेस सरकार बिखरी हुई नजर आ रही है। मुख्यमंत्री भूपेश के दौरे पर तंज कसते हुए डॉ. रमन सिंह ने कहा कि 30 बिंदुओं पर हम भी विकास यात्रा और ग्राम सुराज यात्रा निकाला करते थे। जबकि अब जो यात्रा हो रहा है उसमें तीन हेलीकॉप्टर के साथ मन पसंद और चमचमाते गद्दे रखे हैं। रेड कार्पेट बिछा हुआ है। यह कैसी यात्रा है? हेलीकॉप्टर में बैठी सरकार की सोच भी हवाई है। बच्चों को 10 मिनट हेलीकॉप्टर में बैठाने से उनके जीवन में कोई बड़ा परिवर्तन नहीं आएगा। डॉ. रमन सिंह ने कहा कि सरकार यात्रा में अधिकारियों पर कार्रवाई कर रही है। 25 रुपया प्रति टन कोल में वसूली इस सरकार में हो रहा है। किस कलेक्टर और किस एसपी का कितना रेट है इस सरकार में सब जानते हैं। सरकार भ्रष्टाचार में डूबी हुई है। उन्होंने कहा कि यह यात्रा तभी सफल होगी जब प्रधानमंत्री आवास योजना का क्रियान्वयन होगा। भाजपा यात्रा से डरी हुई नहीं है। योजनाओं में समस्या का निराकरण जरूरी है। उन्होंने कहा कि विधायकों का नहीं बल्कि सरकार का परफॉर्मेंस ही खराब है। सर्वे में आया है कि पूरा सफाया होने वाला है। इसलिए इस तरह की यात्रा सरकार की परफॉर्मेंस सुधारने की कवायद है। डॉ. रमन ने कहा कि हम सरकार के कामकाज की समीक्षा कर रहे हैं, गौठान देख रहे हैं। वर्तमान सरकार और पुरानी सरकार के काम जान रहे हैं। सबका जवाब आएगा और भाजपा सरकार में आएगी। छत्तीसगढ़ विकास मांगता है। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि छग की संस्कृति और परंपरा को मजबूत करना गलत नहीं है। ट्रेनों के निरस्त होने और लोगों की समस्याओं पर डॉ. रमन सिंह ने कहा कि रेल मंत्री से बात हुई है। कोयला का परिवहन जरूरी है। लेकिन यात्रियों को परेशानी नहीं होनी चाहिए। जल्द की हल निकलेगा। डॉ. रमन सिंह ने कहा कि 2023 में होने वाले छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा ने अपनी तैयारी शुरू कर दी है। इसी कड़ी में भाजपा अब प्रदेश के बूथों पर फोकस कर रही है। भाजपा प्रदेश प्रभारी और सह प्रभारी का लगातार दौरा हो रहा है। भाजपा का ध्यान फिलहाल बूथ का विस्तार करने की ओर है। इसे लेकर डॉ. रमन सिंह ने कहा कि बूथ विस्तारक 10 दिन की यात्रा में वे 10 बूथों में जा रहे हैं और समीक्षा कर रहे हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 May 2022

raipur, bus collided, truck, hit the car, one died

रायपुर। राजधानी के धमतरी रोड पर शुक्रवार को ट्रक से टक्कर के बाद कार को अपनी चपेट में लेते हुए बस पलट गई। हादसे में एक व्यक्ति की मौत हो गई। 20 से अधिक यात्री घायल हैं। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार रेडियंट पब्लिक स्कूल के पहले साईं कृपा ट्रेवल्स की बस और ट्रक में टक्कर हुई। इसके बाद बस की चपेट में एक कार आ गई। हादसे में 20 से अधिक यात्री घायल हो गए। कार चालक अवंती विहार रायपुर निवासी 35 वर्षीय श्रीजन अग्रवाल की मौत हो गई है। नौ घायलों को अभनपुर प्राथमिक हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। गंभीर रूप से घायलों को मेकाहारा लाया गया है। वहां उनका इलाज जारी है। हादसे के बाद सड़क के दोनों तरफ लंबा जाम लग गया है। राखी थाना पुलिस सूचना मिलते ही मौके पर पहुंच और राहत और बचाव का काम शुरू किया। बताया गया है कि कार चालक बस को ओवर टेक कर रहा था, उसी दौरान यह हादसा हुआ है। बस रायपुर से धमतरी जा रही थी। बस में करीब 20-25 लोग थे। कार में दो लोग थे। ट्रक धमतरी से रायपुर आ रहा था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 May 2022

raipur, Colleges will open, Raghunath Nagar, Bhupesh Baghel

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शुक्रवार को अपने भेंट-मुलाकात कार्यक्रम के तीसरे दिन प्रतापपुर विधानसभा क्षेत्र के रघुनाथनगर में लोगों से विभिन्न जनकल्याणकारी कार्यक्रमों की क्रियान्वयन की जानकारी ली। उन्होंने इस मौके पर युवाओं की मांग पर रघुनाथनगर में कॉलेज खोलने, वाड्रफनगर में मिनी स्टेडियम और अपर कलेक्टर के लिंक कोर्ट प्रारंभ करने के साथ ही रघुनाथनगर में तालाब निर्माण की घोषणा की। मुख्यमंत्री भूपेश ने रघुनाथनगर की चौपाल में आम नागरिकों की शिकायत पर तत्काल कार्रवाई करते हुए वाड्रफनगर तहसील कार्यालय में पदस्थ पटवारी पन्नेलाल सोनवानी को निलंबित करने के निर्देश दिए। पटवारी के खिलाफ किसानों से रिश्वत लेने की शिकायतें की गई थी। मुख्यमंत्री ने रघुनाथनगर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में अत्याधुनिक एक्सरे मशीन का लोकार्पण किया। नई एक्सरे मशीन से अस्पताल में उपचार के लिए आने वाले मराजों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा मिलेगी। मुख्यमंत्री ने रघुनाथनगर के तहसील कार्यालय और स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल का भी निरीक्षण किया।   बाल हठ के सामने झुके मुख्यमंत्री   मुख्यमंत्री ने रघुनाथनगर के स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल का निरीक्षण किया और स्कूल में शिक्षा प्राप्त कर रहे बच्चों से बड़ी ही आत्मीयता के साथ मुलाकात की। उन्होंने बच्चों से उनकी पढ़ाई-लिखाई के बारे में जानकारी ली। स्कूल की छात्राओं ने मुख्यमंत्री को राजगीत ’अरपा-पैरी के धार’ गीत गाकर सुनाया। इस दौरान स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल में कक्षा दूसरी में पढ़ने वाली बच्ची स्मृति ने पूछा मुख्यमंत्री मैं हेलीकॉप्टर में कब बैठूंगी, मुख्यमंत्री ने कहा कि तुम 12वीं में जब टॉप करोगी, तो तुमको हेलीकॉप्टर में बिठा लेंगे, लेकिन स्मृति जिद पर अड़ गई कि मुझे आपके साथ आज ही हेलीकॉप्टर में बैठना है। बच्ची की मासूम जिद और मनुहार को मुख्यमंत्री टाल नहीं सके और उन्होंने कहा कि तुमको आज ही हेलीकॉप्टर में बिठाएंगे। नन्हीं छात्रा स्मृति की जिद पूरी करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने न सिर्फ उसे, बल्कि और भी बहुत से बच्चों को हेलीकॉप्टर से सैर कराई।   मुख्यमंत्री को खिलाया टिफिन   स्कूल के बच्चों ने मुख्यमंत्री से अपने घर से लाया टिफिन खाने के लिए अनुरोध किया, तो मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं अभी नाश्ता करके आया हूं लेकिन बच्चे जिद पर अड़ गए कि हम घर से आपके लिए खाना लेकर आए हैं, तो वे बच्चों की जिद को नहीं टाल सके उन्होंने उनके टिफिन का खाना खाया और डूबकी कढ़ी की खूब तारीफ की।   गिल्ली-डंडा पर आजमाया हाथ   स्कूल के बच्चों के आग्रह पर मुख्यमंत्री ने उनके संग पारंपरिक लोक खेलों में हाथ आजमाया। मुख्यमंत्री ने बच्चों के साथ गिल्ली-डंडा, पिट्ठुल, बाटी खेलकर उनका उत्साह बढ़ाया। मुख्यमंत्री जब कक्षा में पहुंचे तो बच्चों ने उनसे उत्सुकतावश सवाल किए। मुख्यमंत्री ने बड़ी तसल्ली से सारे सवालों के जवाब दिए।   सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण   मुख्यमंत्री ने रघुनाथनगर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण किया और वहां उपलब्ध सुविधाओं की जानकारी ली। वहां इलाज कराने आए मरीजों से बातचीत कर उन्हें मिल रही स्वास्थ्य सुविधाओं के बारे में पूछा। उन्होंने रघुनाथनगर स्वास्थ्य केंद्र में नई एक्सरे मशीन का लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने अस्पताल में प्रसूता प्रभादेवी को जननी सुरक्षा योजना के अंतर्गत 1400 रुपये का चेक एवं उनकी नवजात बेटी का जन्म प्रमाण पत्र भी प्रदान किया।   तहसील कार्यालय का निरीक्षण   मुख्यमंत्री भूपेश ने रघुनाथनगर तहसील कार्यालय के निरीक्षण के दौरान प्रभारी तहसीलदार से राजस्व प्रकरणों और उनके निराकरण की स्थिति की जानकारी ली। मुख्यमंत्री की घोषणा के बाद रघुनाथनगर तहसील का गठन किया गया है। इस कार्यालय के नव निर्मित भवन का भी मुख्यमंत्री ने निरीक्षण किया। तहसील के गठन के लिए रघुनाथनगर के नागरिकों ने मुख्यमंत्री के प्रति आभार प्रकट किया। इस दौरान नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया, स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम भी उनके साथ थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 May 2022

raipur, Three ministers , tour of the state

रायपुर।मुख्यमंत्री के अलावा प्रदेश के मंत्रियों का धुआंधार दौरा गुरुवार से शुरू हो रहा है। राज्य सरकार ने छत्तीसगढ़ के तीन मंत्रियों को अलग-अलग हेलीकॉप्टर उपलब्ध कराएं हैं, जो अलग-अलग क्षेत्रों में रवाना होकर प्रदेश में योजनाओं की जमीनी हकीकत को देखेंगे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल बुधवार से जहां सरगुजा संभाग के दौरे पर हैं, वही मंत्री रविंद्र चौबे और कवासी लखमा भी हेलीकॉप्टर से अलग-अलग दिशाओं में दौरा करने निकलेंगे। मंत्री रविंद्र चौबे बलरामपुर के लिए रवाना होंगे, जहां वह विधानसभा क्षेत्र के अलग-अलग गांवों में दौरा करेंगे।टी एस सिंहदेव बुधवार को ही दंतेवाड़ा पहुँच चुके हैं। आज वे जगदलपुर में कार्यकर्ताओं से मुलाकात करेंगे और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे । मंत्री कवासी लखमा बस्तर के जगदलपुर पहुंचेंगे । अलग-अलग हेलीकॉप्टर तमाम मंत्रियों को उपलब्ध कराए गए हैं, जिसके जरिए वह सरकार की योजनाओं के क्रियान्वयन और त्वरित निष्पादन का जायजा लेंगेोो है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 May 2022

raipur, JCB tire burst, two people died

रायपुर। रायपुर के औद्योगिक क्षेत्र सिलतरा फेस 2 में धनकुल स्टील प्लांट में गुरुवार को एक हादसे में दो लोगों की मौत हो गई है।लोडिंग के काम के लिए मंगाए गए जेसीबी के टायर में हवा भरते समय अचानक प्रेशर बढ़ने से टायर फट गया। घटना स्थल पर ही 2 लोगों की मौत हो गई। सिलतरा चौकी की पुलिस ने बताया कि इस घटना में मारे गए दोनों कर्मचारी मध्यप्रदेश के सतना के रहने वाले हैं। अब इनके परिजनों को इस घटना की जानकारी दी जा रही है फिलहाल दोनों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।मृतकों का नाम राजपाल सिंह ,32 वर्ष और प्रांजन नामदेव, 32 वर्ष बताया जा रहा है जो कि सतना मध्यप्रदेश के निवासी थे। पुलिस के अनुसार सुरक्षा के मापदंडो का किसी भी प्रकार से पालन नहीं किया गया था।इनके सिर पर न तो हेलमेट था और न ही हाथोे में ग्लब्स थे।वहां लगे सी सी टीवी फुटेज में दिखा है कि टायर से टकराने की वजह से दोनों का सिर फट पड़ा। काफी खून बह जाने की वजह से दोनों की मौके पर ही मौत हो गई। आस पास और भी कर्मचारी मौजूद थे धमाके की वजह से भाग कर उन्होंने अपनी जान बचाई।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 May 2022

raipur, Traffic Jawan ,commits suicide

रायपुर। रायपुर में ट्रैफिक जवान ने गुरुवार सुबह छठवें मंजिल से कूदकर आत्महत्या कर ली। घटनास्थल पर ही ट्रैफिक जवान की मौत हो गई। पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक अमलीडीह स्थित शासकीय निवास की छत से जवान ने छलांग लगा दी। घटना न्यू राजेंद्र नगर थाना क्षेत्र की है। ट्रैफिक जवान का नाम राजकुमार ध्रुव बताया जा रहा है। राजकुमार की ड्यूटी रायपुर में ही थी। ड्यूटी के बाद कल बुधवार को राजकुमार अपने क्वार्टर लौटा था। राजकुमार गुरुवार की सुबह करीब 6 बजे सरकारी क्वार्टर की छठी मंजिल से छलांग लगाकर आत्महत्या कर ली। हादसे में ट्रैफिक जवान की मौके पर ही मौत हो गयी। घटना की सूचना स्थानीय लोगों ने राजेन्द्र नगर थाना को दी, जिसके बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को अपने कब्जे में लिया। फिलहाल पुलिस घटना को लेकर जांच पड़ताल कर आगे की कार्रवाई में जुटी है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 May 2022

raipur, Chief Minister discussed , members of Sang Saheli ,Self Help Group

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गुरुवार को राजपुर विकासखंड के गोपालपुर गौठान में काम कर रहे संग सहेली स्व सहायता समूह की सदस्यों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के द्वारा चर्चा की। उन्होंने गौठान में चल रहे आजीविका गतिविधियों की जानकारी ली और महिलाओं द्वारा किये जा रहे आजिविका मुल्क कार्यों पर खुशी जताई। मुख्यमंत्री ने समूह की महिलाओं की मांग पर गौठान में मुर्रा निर्माण, चिवड़ा निर्माण यूनिट लगाने की स्वीकृति दी। साथ ही समूह संगठन के लिए क्लस्टर भवन निर्माण की भी मंजूरी दी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 May 2022

raipur, Chief Minister released , Godhan Nyay Yojana

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गुरुवार को बलरामपुर जिले के राजपुर में आयोजित कार्यक्रम के दौरान गोधन न्याय योजना के तहत पशुपालक ग्रामीणों, गौठानों से जुड़ी महिला समूहों और गौठान समितियों को 10 करोड़ 70 लाख रुपये की राशि ऑनलाइन जारी की। इस राशि में 16 अप्रैल से 30 अप्रैल तक छत्तीसगढ़ के गौठानों में पशुपालक ग्रामीणों, किसानों, भूमिहीनों से गोधन न्याय योजना के तहत क्रय किए गए गोबर के एवज में 2.34 करोड़ रुपये भुगतान तथा गौठान समितियों को 5.04 करोड़ और महिला समूहों को 3.32 करोड़ रुपये की लाभांश राशि शामिल हैं। इस अवसर पर कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे, नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ.शिव कुमार डहरिया, संसदीय सचिव चिंतामणि महाराज, मुख्य सचिव अमिताभ जैन, मुख्यमंत्री के अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू, प्रमुख सचिव एवं समन्वयक गोधन न्याय मिशन आलोक शुक्ला, कृषि उत्पादन आयुक्त डॉ.कमलप्रीत सिंह सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के वायदे के मुताबिक गोधन न्याय योजना की राशि का हर पखवाड़े नियमित रूप से भुगतान किया जा रहा है। मुख्यमंत्री जनता से भेंट-मुलाकात कार्यक्रम के चलते 11 मई तक सरगुजा संभाग के दौरे पर रहेंगे। गोधन न्याय योजना की राशि जारी करने में विलंब न हो इसके चलते मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज बलरामपुर जिले के राजपुर से इस योजना के हितग्राहियों को 43वीं किश्त के रूप में 10.70 करोड़ रूपए की राशि ऑनलाइन जारी की। गोधन न्याय योजना देश-दुनिया की इकलौती ऐसी योजना है, जिसके तहत छत्तीसगढ़ राज्य के गौठानों में दो रुपये किलो की दर से गोबर की खरीद की जा रही है। गौठानों में 15 अप्रैल तक खरीदे गए गोबर के एवज में गोबर बेचने वाले ग्रामीणों को 136.22 करोड़ रुपये का भुगतान भी किया जा चुका है। आज गोबर विक्रेताओं को 2.34 करोड़ रुपये का भुगतान होने के बाद यह आंकड़ा बढ़कर 138.56 करोड़ रुपये हो गया है। गौठान समितियों को भी अब तक 54.53 करोड़ रुपये तथा महिला स्व-सहायता समूहों 35.66 करोड़ रुपये राशि लाभांश का भुगतान किया जा चुका है। मुख्यमंत्री बघेल ने आज गौठान समितियों को 5.04 करोड़ तथा स्व-सहायता समूह को 3.32 करोड़ रुपये के भुगतान किये। इसके बाद यह आंकड़ा बढ़कर क्रमशः 59.57 करोड़ एवं 38.98 करोड़ रुपये हो गया है। गौठानों में महिला समूहों द्वारा गोधन न्याय योजना के अंतर्गत क्रय गोबर से बड़े पैमाने पर वर्मी कम्पोस्ट, सुपर कम्पोस्ट, सुपर कम्पोस्ट प्लस एवं अन्य उत्पाद तैयार किया जा रहा है। महिला समूहों द्वारा 13 लाख 94 हजार क्विंटल वर्मी कम्पोस्ट तथा चार लाख 97 हजार क्विंटल से अधिक सुपर कम्पोस्ट एवं 18 हजार 925 क्विंटल सुपर कम्पोस्ट प्लस खाद का निर्माण किया जा चुका है, जिसे सोसायटियों के माध्यम से शासन के विभिन्न विभागों एवं किसानों को रियायती दर पर प्रदाय किया जा रहा है। महिला समूह गोबर से खाद के अलावा गो-कास्ट, दीया, अगरबत्ती, मूर्तियां एवं अन्य सामग्री का निर्माण एवं विक्रय कर लाभ अर्जित कर रही हैं। गौठानों में महिला समूहों द्वारा इसके अलावा सब्जी एवं मशरूम का उत्पादन, मुर्गी, बकरी, मछली पालन एवं पशुपालन के साथ-साथ अन्य आय मूलक विभिन्न गतिविधियों का संचालन किया जा रहा है, जिससे महिला समूहों को अब तक 65 करोड़ 54 लाख रुपये की आय हो चुकी हैं। राज्य में गौठानों से 12,013 महिला स्व सहायता समूह सीधे जुड़े हैं, जिनकी सदस्य संख्या 82725 है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 May 2022

raipur, Singhdev reviewed , Panchayat and Health Department

रायपुर / दन्तेवाड़ा। पंचायत एवं ग्रामीण विकास तथा लोक स्वास्थ्य मंत्री टी.एस. सिंहदेव ने गुरुवार को विकास गतिविधियों की समीक्षा बैठक की। इस दौरान उन्हाेंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों के हर पंचायतों में 100 दिवस का रोजगार उपलब्ध कराया जाना आवश्यक है। प्रत्येक जॉब कार्डधारी परिवारों को 100 दिवस का रोजगार उपलब्ध कराएं। नरवा ट्रीटमेंट बहुत ही फायदेमंद स्कीम है। एक नरवा ट्रीटमेंट से यदि 10 एकड़ में भी सिंचाई होती है तो ऐसे में पूरे प्रदेश में लगभग 30 हजार नरवा का लक्ष्य रखा गया है जिससे काफी बड़े क्षेत्रफल में सिंचाई की व्यवस्था की जा सकेगी। सिंहदेव ने कहा कि पंचायतों में 100 दिनों का काम अवश्य दिलाएं। उन्होंने पिछले पांच वर्षों की सामाजिक समावेशन लक्ष्य उपलब्ध्यिों की जानकारी ली। स्व-सहायता समूहों की सामुदायिक गतिविधियों में हिस्सेदारी, गौठानों में आजीविका के साधन, बकरी पालन, मुर्गी पालन, पशुपालन आदि गतिविधियों की बारीकी से पड़ताल की। उन्होंने मनरेगा के तहत् पिछले पांच वर्षों के लक्ष्य और उपलब्धियों की समीक्षा की। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजनान्तर्गत पिछले पांच वर्षों के लक्ष्य और उपलब्धि की समीक्षा के दौरान सिंहदेव ने कहा कि निर्माण एजेंसी जनप्रतिनिधियों को विश्वास में लेकर कार्यों को गति प्रदान करें। बैठक में व्यक्तिगत, परिवारिक शौचालय निर्माण एवं उपयोग, सामुदायिक शौचालय निर्माण एवं उपयोग की समीक्षा के दौरान जिले के कुआकोण्डा पंचायत के अन्तर्गत शौचालय निर्माण में अनियमितता की शिकायत पाए जाने पर इसकी जांच कराए जाने की बात कही। इसी प्रकार उन्होंने जनप्रतिनिधियों के सवालों पर, सीएसआर मद के तहत कराए जा रहें कार्यों एवं इसकी प्रक्रिया से जनप्रतिनिधियों को अवगत कराया। मुख्य कार्यपालन अधिकारी आकाश छिकारा ने पीपीटी के जरीए पंचायतों में कराए जा रहें विकास कार्यों की जानकारी दी। उपस्थित जनप्रतिनिधियों, सरपंचो ने मनरेगा के नगद भुगतान की मांग की। पंचायत मंत्री सिंहदेव ने जनपद पंचायतों में सामान्य सभा की बैठक नियमित रूप से किए जाने के निर्देश दिए। वहीं ग्रामीण यांत्रिकी सेवा विभाग द्वारा पुराने कार्यों एवं पूर्ण हो चुके कार्यों के अविलंब भुगतान हेतु निर्देशित किया। उन्होंने पंचायत सचिवों को अनिवार्यतः गावों में ही निवास करने के निर्देश दिए हैं। बैठक में पिछले पांच वर्षों के दरमियान मुख्यमंत्री समग्र ग्रामीण विकास योजनान्तर्गत प्राप्त राशि, पूर्ण एवं अपूर्ण कार्यों की समीक्षा की गई।   कोरोना काल में चिकित्सकों के कार्यों को सराहा कोरोना काल में डाक्टर्स ने जिस दृढ़ता से कार्य किया, जिस तरह से चिकित्सकों ने जिम्मेदारी निभाई वह काबिलेतारीफ है। जिले में संतोषजनक परिणाम रहे हैं। यह बाते लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की समीक्षा के दौरान मंत्री टी. एस. सिंहदेव ने व्यक्त किए। उन्होंने कोरोना के प्रति अभी भी सावधानी बरतने को कहा तथा जिले में जांच बढ़ाए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने टीकाकरण की प्रगति पर संतोष जताया और कहा कि यह जिला चुनौतीपूर्ण है। सिंहदेव ने कहा कि जिनका टीकाकरण ओव्हरड्यू है उन्हें लगाना है। बैठक में तीनों जिला सुकमा, बीजापुर एवं दन्तेवाड़ा के स्वास्थ्य गतिविधियों की गहन समीक्षा कर आवश्यक निर्देश दिए गए। बैठक में पंचायत एवं ग्रामीण विकास संचालक कार्तिकेय गोयल, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग, चिकित्सा शिक्षा विभाग आयुक्त डॉ सी आर प्रसन्ना, विधायक देवती महेंद्र कर्मा, छग पादप बोर्ड उपाध्यक्ष छबीन्द्र कर्मा, जिला पंचायत अध्यक्ष सुकमा हरीश कवासी, जिला पंचायत सदस्य सुलोचना कर्मा, पूर्व महापौर जगदलपुर जतिन जायसवाल अन्य जनप्रतिनिधिगण, जिला पंचायत सीईओ आकाश छिकारा, अपर कलेक्टर संजय कन्नौजे, एसडीएम अबिनाश मिश्रा सहित दंतेवाड़ा, बीजापुर एवं सुकमा के सबंधित अधिकारीगण उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 May 2022

raipur, Officers ready ,respective work, Bhupesh Baghel

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गुरुवार को राजपुर में बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के अधिकारियों की बैठक लेकर जिले की विकास योजनाओं पर चर्चा की। मुख्यमंत्री ने जहां अच्छे कार्यो के लिए अधिकारियों की सराहना की, वहीं अपने-अपने काम में मुस्तैद रहने की हिदायत भी दी। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से कहा कि गरीबों के लिए छोटी-छोटी बातें काफी मायने रखती हैं। एक लापरवाही गरीब परिवार के लिए भारी पड़ती है। उन्होंने इस संदर्भ में कहा कि राशनकार्ड नहीं बनने के कारण एक महिला दो साल से नकद में राशन खरीद रही थी। उसकी यह समस्या समीक्षा के दौरान संज्ञान में क्यों नहीें ली गई। राज्य सरकार की विकास की अवधारणा के केन्द्र में सबसे गरीब व्यक्ति है। अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि उन्हें शासन की योजनाओं का पूरा-पूरा लाभ मिले। इस अवसर पर नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ.शिव कुमार डहरिया, संसदीय सचिव चिंतामणि महाराज, मुख्य सचिव अमिताभ जैन, मुख्यमंत्री के अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू, सहित जिले के अधिकारी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि अधिकारियों की कार्यकुशलता, व्यवहार और लोगों के साथ उनके संपर्क से शासन की छवि बनती और बिगड़ती है। अच्छा काम करेंगे तो आप प्रशंसा पाएंगे। इससे शासन की भी प्रशंसा होगी। यदि आप काम नही करेंगे, तो शासन और आप दोनों की आलोचना होगी। मुख्यमंत्री ने 4 मई को कुसमी विधानसभा क्षेत्र के तीन गांवों में आम जनता से मिले फीडबैक पर कहा कि आम जनता में सरकार के प्रति दृष्टिकोण बहुत अच्छा रहा। मुख्यमंत्री ने गौठानों को रूरल इंड्रस्ट्रीयल पार्क के रूप में विकसित करने की योजना का उल्लेख करते हुए कहा कि गांव के लोग हुनरमंद हैं, बढ़ई, लौहार का काम पीढ़ी दर पीढ़ी करते आ रहे हैं। केवल उनको प्रोत्साहित करने की जरूरत है। हर ब्लॉक में पायलट प्रोजेक्ट के रूप में एक-दो गौठानों को रूरल इंड्रस्ट्रीयल पार्क के मॉडल के रूप में विकसित किया जाए। जिन गौठानोें में सरसो पेराई मशीन और दाल मिल लगाई गई है, वहां के किसानों को सरसांे और दालों का उत्पादन करने के लिए प्रोत्साहित करें। उन्होंने कहा कि गौठानों में आम सहमति से लगभग डेढ़ लाख एकड़ जमीन सुरक्षित कर ली गई है। उन्होंने गौठानों में महिला समूहों द्वारा उत्पादित सामग्री के विक्रय की बेहतर व्यवस्था करने के निर्देश दिए। लोगों को सभी उत्पाद एक ही छत के नीचे मिल सके। इसके लिए हर जिले में सी-मार्ट खोले जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि शिक्षा और स्वास्थ्य की बेहतर से बेहतर सुविधाएं उपलब्ध कराना राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। 1998 के बाद पहली बार शिक्षकों की सीधी भर्ती की गई। लोगों को रोजगार से जोड़ना, पीडीएस का सुचारू संचालन, बिजली बिल हाफ योजना, धान खरीदी जैसी योजनाओं पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है। बघेल ने धान खरीद में बेहतर व्यवस्था के लिए अधिकारियों की प्रशंसा करते हुए कहा कि इस वर्ष किसानों से समर्थन मूल्य पर 98 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी की गई है, जिसमें तीन दिन में भुगतान कर दिया गया। यह आपकी कार्यकुशलता बताता है। इस साल धान का उठाव भी बहुत अच्छे से हुआ है। इससे सूखत, बरसात के नुकसान से बचत हुई। मुख्यमंत्री ने कहा कि शासकीय अस्पतालों में स्वास्थ्य व्यवस्था को काफी बेहतर बनाया गया है। श्री धनवंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर्स प्रारंभ किए गए हैं। अस्पतालों में दवाईयों और डॉक्टरों की व्यवस्था है। हाट बाजार क्लिनिक योजना, शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना, दाई-दीदी क्लिनिक योजना प्रारंभ की गई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि तहसील कार्यालयों में नामांतरण, बंटवारा, फौती आदि के काम रूटीन में होने चाहिए। उन्होंने कुसमी थाना के महिला बंदी गृह के शौचालय को ठीक कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सभी विभागों में छोटी-छोटी कमियों को सुधारने की आवश्यकता है। राजधानी से पहुँचे वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों की मौजूदगी में बघेल ने जिले वासियों की सहूलियत के लिये संचालित विकास योजनाओं और कार्यक्रमो को सफलतापूर्वक पूरा करने के निर्देश दिए। बघेल ने अधिकारियों से परिचय लिया और खुशनुमा पारिवारिक माहौल में बात की। उन्होंने अधिकारियों की परेशानियों और काम में आ रही दिक्कतों के बारे में भी पूछा। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को शासन की तरफ से नियम अनुसार सभी संभव मदद का भी आश्वासन दिया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 May 2022

raipur,Chief Minister,

रायपुर।मुख्यमंत्री ने बुधवार को कुसमी में आम जनता से रूबरू चर्चा के लिए आयोजित ‘भेंट-मुलाकात‘ में कुसमी के लिए अनेक महत्वपूर्ण घोषणाएं की। नगर पंचायत कुसमी के वार्ड क्रमांक-2 में आम के पेड़ की ठंडी छांव में मुख्यमंत्री से चर्चा करने के लिए बड़ी संख्या में लोग पहुंचे थे। मुख्यमंत्री उनसे मिलने के लिए पैदल चलकर स्थल पर पहुंचे। शासन द्वारा मिली जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आम जनता की मांग पर कुसमी-सामरी-बलरामपुर पहुंच मार्ग में कंठी घाट के पास करीब 8 किलोमीटर सड़क डामरीकरण, कुसमी में आलू, टाउ और मिर्ची के फूड प्रोसेसिंग प्लांट की स्थापना, कुसमी के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में नई तकनीक वाली एक्सरे मशीन, आईटीआई में नए ट्रेड खोलने ,आईटीआई के नए भवन निर्माण तथा नगर पंचायत कुसमी में फायर ब्रिगेड वाहन की व्यवस्था करने की घोषणा की। इसके साथ ही साथ उन्होंने कुसमी से कोरंधा होकर लातेहार सड़क को राजकीय राजमार्ग बनाने के लिए झारखण्ड सरकार से चर्चा करने का आश्वासन दिया। कुसमी में बिजली कटौती और ओव्हर लोड की समस्या की जानकारी मिलने पर मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को इस समस्या के समाधान के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री को इस कार्यक्रम के दौरान सभा में मौजूद प्रिया यादव नाम की बच्ची के दिल के ऑपरेशन के बारे में जानकारी मिली तो उन्होंने उसकी मां को पास बुलाकर बच्ची के स्वास्थ्य के बारे में पूछताछ की। मां ने बताया कि ऑपरेशन के बाद बच्ची का स्वास्थ्य अब बहुत बेहतर है। बघेल ने बच्ची को गोद में उठाकर दुलारा और आशीर्वाद दिया। इस बच्ची प्रिया यादव का शासन से मिली 3.5 लाख रुपये की राशि से इलाज हुआ है, बच्ची की मां ने इसके लिए मुख्यमंत्री को धन्यवाद दिया। बघेल ने भेंट-मुलाकात कार्यक्रम में महिला स्व-सहायता समूह की महिलाओं से उनके कामकाज के बारे में जानकारी ली। समूह की महिलाओं ने उनके समूह द्वारा तैयार की गई सामग्री की टोकरी मुख्यमंत्री को भेंट की।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 May 2022

raipur, Bhupesh Baghel ,following ,Kim Jong, Vishnudev

रायपुर। छत्तीसगढ़ प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने कांग्रेस विधायक के भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाने वाले युवा आयोग के सदस्य को पार्टी से छह साल के लिए बाहर कर दिये जाने पर मंगलवार की देर शाम को एक प्रतिक्रिया व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस भ्रष्टाचार के नरवा में इस तरह लोट रही है कि भ्रष्टाचार के विरुद्ध बोलने को अनुशासनहीनता मानकर पार्टी से निकाल बाहर कर दिया जाता है। यह सरकार और कांग्रेस, भ्रष्टाचार को ही शिष्टाचार मानती है। भूपेश बघेल और उनकी कांग्रेस तानाशाह किम जोंग के नक्शे कदम पर चल रही है। जिसे विरोध का गला घोंटने में कोई संकोच नहीं होता। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने कहा कि भूपेश बघेल के राज में जनता, कर्मचारी और विपक्ष किसी को भी विरोध व्यक्त करने की लोकतांत्रिक आजादी नहीं है। धरना प्रदर्शन जुलूस रैली किसी भी रूप में विरोध भूपेश बघेल सरकार को मंजूर नहीं है। अंग्रेजी हुकूमत की तर्ज पर भूपेश एक्ट लाया गया है ताकि कोई भी सरकार के अत्याचार और भ्रष्टाचार का विरोध न कर सके। छत्तीसगढ़ में केवल भ्रष्टाचार को छूट है, माफिया राज की छूट है, अपराध की छूट है। बाकी सब पर पाबंदी है। इंदिरा गांधी के अलोकतांत्रिक आदर्श पर चलने वाली कांग्रेस ने छत्तीसगढ़ में सेंसरशिप लगा रखी है। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने कहा कि अन्य राज्यों में भ्रष्टाचार के खिलाफ शिकायतें दर्ज कराने टोल फ्री नंबर जारी हो रहे हैं और छत्तीसगढ़ में भूपेश बघेल की सरकार भ्रष्टाचार को ऐसा संरक्षण दे रही है कि विधायक के भ्रष्टाचार पर बोलने का दंड दिया जा रहा है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम अपने सामने मारपीट करने वाले का निलंबन तत्काल प्रभाव से रद्द करते हैं और भ्रष्टाचार की शिकायत करने वाले को तत्काल प्रभाव से बाहर निकाल देते हैं। कांग्रेस के खाने और दिखाने के अलग अलग दांत सबके सामने आ गए हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 May 2022

raipur, Car driver killed, road accident

रायपुर। रायपुर के खम्हारडीह इलाके में मंगलवार की देर रात हुए एक सड़क हादसे में एक कार चालक की मौत हो गई है। पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक मंगलवार की रात करीब 11 बजे आई-10 कार क्रमांक सीजी 04 एमएल 6589 राजीव नगर गेट के सामने डिवाइडर से टकरा गई। हादसे में कार चालक राकेश साहू ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। कार में सवार उनके दोस्त अर्जुन बानखेड़े को चेहरे पर चोट आई है। वहीं दो साथी सुरेंद्र वर्मा और नंदनी वानखेड़े को चोटें आई हैं, जिन्हें खम्हारडीह पुलिस ने अस्पताल भिजवाया है। फिलहाल पुलिस मृतक एवं घायलों के परिजनों को सूचित कर आगे की कार्रवाई में जुटी है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 May 2022

raipur, Chief Minister Baghel ,leaves ,

रायपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री मुख्यमंत्री भूपेश बघेल बुधवार को राजधानी रायपुर के पुलिस लाइंस हेलीपेड से प्रदेश के सभी विधानसभा क्षेत्रों में आमजनता, जनप्रतिनिधियों और समाज प्रमुखों से ’भेंट-मुलाकात’ के अभियान पर रवाना हुए। मुख्यमंत्री इस अभियान की शुरुआत सरगुजा संभाग के बलरामपुर जिले से करेंगे। बघेल का पहला पड़ाव सामरी विधानसभा क्षेत्र में होगा। बघेल मंगलवार को बलरामपुर जिले के सामरी विधानसभा क्षेत्र में कुसमी, शंकरगढ़ और बरियों गांव में पहुचेंगे तथा रात्रि विश्राम राजपुर में करेंगे। मुख्यमंत्री बघेल ने ’भेंट-मुलाकात’ के अभियान में रवाना होने से पहले मीडिया प्रतिनिधियों से चर्चा करते हुए कहा कि कोरोना के कारण एक लंबे अरसे से लोगों के बीच जा नहीं पाए थे, हालांकि पिछले वर्ष सामाजिक संगठनों की बैठक में शामिल होने का मौका मिला। भ्रमण के दौरान शासकीय योजनाओं की धरातल पर स्थिति की जानकारी लूंगा। उन्होंने कहा कि आम जनता से और जनप्रतिनिधियों से मिलने से योजनाओं के बारे में जानकारी मिलती है, क्या संशोधन होना चाहिए, क्या जुड़ना चाहिए, इसकी जानकारी मिलती है। भ्रमण के दौरान गांवों में हुए अच्छे कार्यो के साथ वहां की समस्याओं के बारे में भी जानकारी मिलेगी। मेरी कोशिश होगी की मैं अधिक से अधिक समय लोगों के साथ बिताऊं। उन्होंने कहा कि भ्रमण के दौरान वे पीडीएस दुकान, पंचायत कार्यालय, आंगनबाड़ी, स्वास्थ्य केन्द्र, थाने, स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल, नगर पंचायत के दफ्तर जाएंगे। उन्होंने बताया कि जिले के प्रभारी मंत्री और क्षेत्र के विधायक भी भ्रमण के दौरान उनके साथ होंगे। नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री डॉ शिवकुमार डहरिया भी मुख्यमंत्री के साथ रवाना हुए

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 May 2022

raipur, Vishnudev , pawn of anti-tribal conspiracy, Mohan Markam

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा है कि रमन राज में आदिवासियों पर अत्याचार हो रहे थे तब विष्णुदेव साय सहित भाजपा के आदिवासी नेता मौन थे। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदेव साय भाजपा की आदिवासी विरोधी राजनीति के मोहरे बन गए हैं। भाजपा उनका इस्तेमाल आदिवासियों को गुमराह करने के लिए कर रही है। वे आदिवासी समाज के हितों पर विचार करने की बजाय भाजपा की साम्प्रदायिक राजनीति के दलदल में फंस गए हैं, इसलिए उन्हें कांग्रेस सरकार द्वारा आदिवासी समाज के हित और आदिवासियों के जीवन में खुशहाली के लिए किये जा रहे काम दिखाई नहीं दे रहे हैं। आदिवासियों में भ्रम फैला कर उन्हें भड़काने की भाजपा की साजिश कभी सफल नहीं हो सकती। आदिवासी समाज जानता है कि उसके हित कांग्रेस की सरकार में ही सुरक्षित हैं। भाजपा ने सत्ता में रहते हुए 15 साल तक आदिवासी को आदिवासी से लड़ाया। आदिवासियों का शोषण किया। उनका उत्पीड़न किया। उनकी जमीन छीनी। बेकसूर आदिवासियों को जेल में ठूंसा। तब विष्णुदेव साय कहां थे? कभी आदिवासियों के अधिकार की बात करने की नैतिकता क्यों नहीं दिखाई? रमन राज में ताडमेटला, सारकेगुड़ा जैसी दुर्दांत घटनायें हुई मीनाखल्को, मडकम हिडमा अमानवीय क्रूर हत्याकांड हुआ तब क्यों मौन थे? भाजपा के राज में बेतहाशा धर्मांतरण हुआ, तब विष्णुदेव साय के मन में आदिवासी प्रेम क्यों नहीं जागा? अब जबकि धर्मांतरण का एक भी प्रमाण भाजपा नहीं दे पा रही है तो विष्णुदेव साय को आदिवासियों को बरगलाने के काम पर लगाया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 May 2022

raipur, Chief Minister ,worshiped

रायपुर। छत्तीसगढ़ के प्रमुख कृषि पर्व अक्ती पर्व के शुभ अवसर पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के खेत में ठाकुर देवता की पूजा अर्चना कर खेती-किसानी के नये कामों की शुरुआत की और प्रदेशवासियों की सुख समृद्धि की कामना की। मुख्यमंत्री ने अक्षय तृतीया के अवसर पर खेत में हल और ट्रेक्टर चलाकर बीजों का रोपण भी किया। मुख्यमंत्री बघेल ने अक्षय तृतीया के अवसर पर खेत में ट्रेक्टर चलाकर सीड ड्रिल से धान के बीजों का रोपण किया। छत्तीसगढ़ के पारंपरिक परिधान धोती-कुर्ता पहनकर मुख्यमंत्री भूपेश ने माटी पूजन के दौरान सबसे पहले कोठी से अन्न लेकर ठाकुर देव को अर्पित किया। यहाँ परम्परागत तौर पर उन्होंने अन्न के दोने को बैगा को सौंपा। इस अन्न को ठाकुर देव के सामने रखकर अन्न पूजा की क्रिया सम्पन्न की गयी। इस अन्न दोने से बीज लेकर खेत में बीजारोपण किया। धरती और प्रकृति की रक्षा करने के संकल्प के साथ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मंगलवार को छत्तीसगढ़ में माटी पूजन महाभियान की शुरुआत की। इसके अंतर्गत राज्य में जैविक खेती को बढ़ावा दिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर बाड़ी में कुएं की पूजा कर गंगा मईया का आह्वान किया और कुम्ड़ा, तोरई और करेले के बीजों का रोपण किया। इस अवसर पर कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे, कृषक कल्याण परिषद के अध्यक्ष सुरेन्द्र शर्मा, मुख्यमंत्री के कृषि सलाहकार प्रदीप शर्मा एवं इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. गिरीश चंदेल भी उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 May 2022

raipur, Opposition , Akti Tihar ,BJP

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी द्वारा माटी पूजन और अक्ती तिहार का विरोध भाजपा का छत्तीसगढ़ विरोधी चरित्र है। प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि इसके पहले जब मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने श्रमिक दिवस के दिन श्रमिकों के सम्मान में बोरे बासी खाने का आह्वान प्रदेश की जनता से किया था तब भी भारतीय जनता पार्टी ने बोरे बासी खाने का माखौल उड़ाया था। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद से ही लगातार मुख्यमंत्री भूपेश बघेल राज्य की संस्कृति, तीज त्योहारों, परंपरा स्थानीय बोली भाषा को बढ़ावा देने के लिये प्रयास कर रहे हैं। तीजा पर छुट्टी, तीजा पोला, हरेली, कमरछठ का मुख्यमंत्री निवास सहित शासकीय स्तर पर आयोजन कर छत्तीसगढ़िया त्योहारों का मान बढ़ाया है। श्री राम वन गमन पथ और माता कौशल्या मंदिर के निर्माण से छत्तीसगढ़ की वैभवशाली आध्यात्मिक परंपरा पुर्नजीवित हुई। विश्व आदिवासी नृत्य महोत्सव, आदिवासी साहित्य सम्मेलन का आयोजन कर कांग्रेस सरकार ने छत्तीसगढ़ की समृद्ध प्राचीन आदिवासी संस्कृति को देश दुनिया के सामने लाकर गौरवान्वित करने का काम किया है। भाजपा को इस बात की पीड़ा है कि छत्तीसगढ़ की संस्कृति के संरक्षण का जो काम भूपेश बघेल कर रहे वह भारतीय जनता पार्टी 15 साल तक नहीं कर पाई। भाजपा ने राज्योत्सव के आयोजन पर करोड़ों रु. खर्च किया लेकिन तब सलमान खान, करीना कपूर बुलाये जाते थे।   सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि छत्तीसगढ़ राज्य का गठन ही इसलिए हुआ है कि छत्तीसगढ़िया स्वाभिमान की पुर्नस्थापना की जा सके, छत्तीसगढ़िया संस्कृति को बढ़ावा दिया जा सके और छत्तीसगढ़िया हितों का संरक्षण किया जा सकें। यह प्रदेश का दुर्भाग्य है कि ये सारे काम राज्य बनने के 18 वर्षों बाद शुरू हो सका है। पूर्ववर्ती भाजपा सरकार ने प्रदेश में 15 वर्षो तक राज किया, लेकिन छत्तीसगढ़िया हितों का संरक्षण करने के बजाय छत्तीसगढ़ियों के दमन में लगी रही। अब प्रदेश के मुख्यमंत्री और माटी पुत्र भूपेश बघेल जब छत्तीसगढ़ की कला, संस्कृति, सभ्यता और संस्कार को बढ़ावा देने के साथ राज्य के मूल निवासियों के स्वाभिमान को जगा रहे हैं तो अपने आप भाजपा की पोल खुल रही है, जिससे छत्तीसगढ़ विरोधी मानसिकता के भाजपा नेता तिलमिला रहे हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 May 2022

dhamtari, Thakur Dev,worshiped , rural areas

धमतरी।ग्रामीण अंचल में अक्ती पर्व उत्साह व उमंग के साथ मनाया गया। किसानों ने गांव के देवस्थल पर परंपरा अनुसार धान का दोना अर्पित कर अच्छे फसल की कामना की। गांव के ईष्ट ठाकुर देव की पूजा-अर्चना कर बेहतर खेती-किसानी और अच्छी बारिश के लिए कामना की। सुबह से रात तक शुभ संकेत के लिए किसान आसमान से हल्की बारिश का इंतजार करते रहे। सभी गांव में यह पर्व उत्साह के साथ मनाया गया। ग्रामीण अंचलों में अक्ती पर्व का विशेष महत्व है। ग्रामीण पूजा अर्चना कर अपने पूर्वजों को याद करते हैं। जिलेभर के किसानों व ग्रामीणों ने अक्षय तृतीया पर्व को पारंपरिक ढंग से मनाया। प्रत्येक गांव में किसान सुबह से अपने-अपने घरों से दोना-पत्तल में धान लेकर ईष्ट ठाकुर देवता के पास इकट्ठे हुए। बैगाओं और वृद्धजनों ने ठाकुर देव की पूजा-अर्चना कर खेती किसानी और अच्छी बारिश के लिए कामना की। देवस्थल पर हल व कुदाल चलाकर खरीफ खेती-किसानी की शुरुआत की गई। पूजा-अर्चना पश्चात धान से भरे दोना को किसानों को वितरित किया, जिसे किसानों ने अपने खेतों में छिड़ककर अच्छे उत्पादन की कामना की। ग्राम मुजगहन में अक्ति का पर्व पूरे पारंपरिक ढंग से मनाया गया। देवस्थल पर ग्रामीण समूह में पहुंचे और ग्राम देवता की पूजा अर्चना की। भगवान से उन्नत फसल की कामना की। पूर्व सरपंच होमेश्वर साहू ने बताया कि ठाकुर देवता में पूजा पाठ करके धान खेत में डालकर नेग किया जाता है। गांव में सुख समृद्धि के लिए पूजा की जाती है। इस कार्यक्रम में गांव के ग्राम पटेल भुवन साहू, सरपंच चंद्रशेखर साहू, रामदयाल साहू, लक्ष्मी नारायण, महेश्वर साहू, ज्ञान साहू, विचित्र वीर्य, लखनलाल नीलकंठ, भीखम, भूमेश, राजकुमार, जनक नेताम, नीतू, रामबगस साहू सहित अन्य मौजूद थे। सरपंच सत्यवान साहू, उपसरपंच खिलेश साहू, रेखराम यादव ने बताया कि अक्ती पर्व किसानों के लिए प्रमुख पर्व है। इसी दिन से किसान खरीफ सीजन के लिए खेती-किसानी की शुरुआत करते हैं। ईष्ट देव की पूजा-अर्चना कर बेहतर उत्पादन, अच्छी बारिश, गांव की शांति व्यवस्था, संक्रामक रोगों से बचाव आदि के लिए भगवान से कामना करते हैं। वहीं परिवार के मृतक सदस्यों को यादकर भोज कराते हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 May 2022

bejapur, BJP

बीजापुर। जिले के भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीनिवास राव मुदलियार, पूर्व जिलाध्यक्ष जी वेंकट एवं जिला महामंत्री सत्येन्द्र ठाकुर ने कहा कि आज हर तबका सरकार के विरूद्ध आंदोलित है।भाजपा नेताओं ने कहा है कि यदि कांग्रेस की सरकार अपने काला आदेश को वापस नहीं लेगी, तो भाजपा 16 मई को जेल भरो आंदोलन करेगी। भाजपा ने आरोप लगाया है कि वन कर्मी, स्वास्थ्य कर्मी, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, मनरेगा कर्मी, बेरोजगार एवं आम जनता से झूठे वादे कर कांग्रेस ने सत्ता हथिया ली। अब सार्वजनिक, निजी कार्यक्रमों, धार्मिक, राजनीतिक एवं अन्य कार्यक्रमों पर एक तरह से तुगलगी फरमान जारी कर, प्रतिबंध लगाने की जुगत में भूपेश सरकार ने रैली और सभाओं पर रोक संबंधित काला आदेश जारी कर दिया है। सरकार उसके खिलाफ उठ रही सभी आवाज दबाकर आंदोलनों को भी रोकना चाहती है। पूर्व जिलाध्यक्ष जी वेंकट एवं जिला महामंत्री ने कहा कि बाबा साहेब ने संविधान में अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता भारत के प्रत्येक नागरिक को दी है। संवैधानिक अधिकारों को राज्य की जनता से भूपेश सरकार छीन रही है। लोकतांत्रिक अधिकारों की हत्या की जा रही है। भाजपा, डॉ. भीमराव अंबेडकर की जयंती को सामाजिक न्याय पखवाड़ा के तौर पर मना रही है, तब कांग्रेस सरकार लोकतांत्रिक अधिकारों के हनन पर उतारू है। उन्होंने कहा कि भूपेश सरकार की तुगलगी फरमान , किसी भी कार्यक्रम केे आयोजक यदि 19 शर्तो का पालन नहीं करेगा, तो उसे जेल हो जाएगी। सबसे आपत्तिजनक एवं असंवैधानिक बिंदू ,आयोजकों से हलफनामा लिया जाना है। अब भूपेश सरकार के फरमान से कांग्रेस को ही आयोजन का अधिकार होगा। इस आदेश की आड़ में कांग्रेस विपक्ष पर चिंन्हाकित हमले करेगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 May 2022

raipur, One person killed ,lift repair dispute

रायपुर।रायपुर के देवपुरी के डूमरतराई स्थित मेडिकल कॉम्प्लेक्स में सोमवार रात सिर पर डंडे और सीने पर लात घूंसे से वार कर 48 वर्षीय एक शख्स की हत्या कर दी गई। इस दौरान उसका बेटा भी वहीं मौजूद था। पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार रायपुर से लगे माना इलाके के डूमरतराई स्थित मेडिकल कांपलेक्स में गुढ़ियारी के कोटा निवासी लिफ्ट कारोबारी मनोज मेश्राम और उसके बेटे कुणाल मेश्राम दवा व्यापारी दिलीप रहेजा की दुकान में लिफ्ट सुधारने पहुंचे थे । कुछ दिन पहले लिफ्ट के खराब हो जाने की वजह से दिलीप रहेजा ने मनोज को रिपेयरिंग के लिए बुलवाया था।मनोज अपने 18 साल के बेटे कुणाल के साथ देवपुरी के मेडिकल कॉम्प्लेक्स पहुंचा था। यहां दिलीप के दो बेटों ने मनोज के साथ विवाद करना शुरू कर दिया कहने लगे और उसने घटिया क्वालिटी का लिफ्ट लगाया है।मनोज और उसके बेटे कुणाल ने विरोध किया तो दिलीप के दोनों बेटे मारपीट पर उतारू हो गए। कुणाल को दुकान में ही बंधक बना लिया और लाठी-डंडों से पीटने लगे। कुणाल के सामने ही उसके पिता के सिर पर डंडे चलाए गए और सीने पर लात घूंसे से वार किया गया। 48 साल के मनोज ने वहीं दम तोड़ दिया। उसका बेटा कुणाल देख रहा था। आरोपितों ने कुणाल को भी बंधक बनाकर खूब पीटा। इसके बाद घायल कुणाल और उसके पिता को पचपेड़ी नाका के एमएमआई अस्पताल के बाहर छोड़कर आरोपित भाग गए, तब मामला पुलिस के पास पहुंचा। सिटी एसपी तारकेश्वर पटेल ने कहा है कि दिलीप रहेजा के बेटों की इस मामले में तलाश की जा रही है। जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 May 2022

raipur, Chhattisgarh,Now instead of five, three power companies

रायपुर। मुख्यमंत्री कीअध्यक्षता में मंत्री परिषद की बैठक में राज्य की विद्युत कंपनियों के मर्जर का निर्णय लिया गया है ।अब पांच की बजाय तीन विद्युत कंपनी अस्तित्व में रहेंगी ।   मंत्री परिषद ने छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत मण्डल अंतरण योजना नियम- 2010 में संशोधन के प्रस्ताव का अनुमोदन किया है। रविवार को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में हुई बैठक के निर्णय के अनुसार छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर ट्रेडिंग कंपनी लिमिटेड को छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर डिस्ट्रिब्यूशन कंपनी लिमिटेड में मर्ज किया जाएगा। इसी तरह छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर होलि्ंडग कंपनी लिमिटेड का विलय छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर ट्रांसमिशन कंपनी लिमिटेड में होगा। पांच में से तीन कंपनियां छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर डिस्ट्रिब्यूशन कंपनी लिमिटेड, छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर ट्रांसमिशन कंपनी लिमिटेड एवं छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर जनरेशन कंपनी लिमिटेड ही अस्तित्व में रहेंगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 May 2022

raipur, Chief Minister released , book

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रविवार की देर शाम यहां अपने निवास कार्यालय में डॉ. सुधीर शर्मा की किताब ‘बड़ सुग्घर बोरे-बासी’ का विमोचन किया। डॉ. शर्मा ने मुख्यमंत्री बघेल को बताया कि उन्होंने इस किताब में छत्तीसगढ़ की सांस्कृतिक पहचान बोरे-बासी पर डॉ. खूबचन्द बघेल, कोदुराम दलित सहित अन्य लेखकों के लेख व कविताओं तथा लोकजीवन में प्रचलित बोरे-बासी से जुड़ी कहावतों और मुहावरों का संकलन किया है। उन्होंने कहा कि श्रमवीरों के सम्मान में आज श्रमिक दिवस पर मुख्यमंत्री बघेल के आह्वान पर पूरे प्रदेश सहित देश-विदेश में बसे छत्तीसगढ़ के लोगों ने बोरे-बासी खाकर अपनी संस्कृति से जुड़ाव को अभिव्यक्त किया है। इस पहल से आज छत्तीसगढ़ सहित अन्य देश-प्रदेश के लोगों में भी बोरे-बासी के विषय में और जानने की उत्सुकता बढ़ी है, ऐसे पाठकों के लिए यह किताब उपयोगी सिद्ध होगी। इस अवसर पर मौजूद फूड ब्लॉगर कृति शर्मा ने मुख्यमंत्री को बताया कि वे अपने यू-ट्यूब चैनल और ब्लॉग के माध्यम से छत्तीसगढ़ी व्यंजनों को प्रमोट कर रही हैं, जिसे काफी संख्या में लोगों द्वारा पसन्द किया जा रहा है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने डॉ. शर्मा को ‘बड़ सुग्घर बोरे-बासी’ किताब के प्रकाशन पर बधाई एवं शुभकामनाएं दीं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 May 2022

raipur, Dearness allowance,employees increased , Chhattisgarh

रायपुर।रविवार देर रात छत्तीसगढ़ में कर्मचारियों का महंगाई भत्ता 5 फ़ीसदी बढ़ा दिया गया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इसकी घोषणा की है । महंगाई भत्ते की यह दर एक मई 2022 से ही लागू हो जाएगी। बढ़ा हुआ डीए एक मई से दिया जाएगा। अब राज्य के करीब तीन लाख से अधिक कर्मचारियों को 22 प्रतिशत डीए मिलेगा। हालांकि यह अब भी यह केंद्रीय कर्मचारियों के 34 प्रतिशत डीए से कम है।कर्मचारी नेताओं ने इसे ऊंट के मुँह में जीरा बताया है। रविवार को मंत्रिपरिषद में इस तरह का प्रस्ताव नहीं आने पर कर्मचारियों बेहद आक्रोशित थे । देर रात मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ट्वीट कर महंगाई भत्ता बढ़ाने की घोषणा की। महंगाई भत्ता बढ़ाने की मांग को लेकर कर्मचारी आंदोलित थे। मार्च में कर्मचारियों ने विधानसभा घेराव की कोशिश की थी। संगठनों का कहना था, केंद्रीय कर्मियों को 34 प्रतिशत महंगाई भत्ता मिल रहा है। राज्य सरकार उन्हें केवल 17 प्रतिशत भत्ता दे रही है। इस बीच आवश्यक वस्तुओं की महंगाई में कई गुने की वृद्धि हो चुकी है। महंगाई भत्ता नहीं बढ़ने से उन लोगों को वित्तीय रूप से काफी नुकसान हो रहा है।उल्लेखनीय कि छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत कंपनी के कर्मचारियों के भत्ते में तीन प्रतिशत की वृद्धि की गई है। उनके महंगाई भत्ते की वर्तमान दर 34 प्रतिशत कर दिया गया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 May 2022

raipur, Chief Minister Baghel , precaution dose done

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सोमवार को अपने निवास में कोरोना से बचाव के लिए प्रिकॉशन डोज का टीका लगवाया। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर प्रदेश वसियों से अपील करते हुए कहा है कि टीकाकरण कोविड-19 से बचाव का सुरक्षा कवच है। सभी लोग निर्धारित मापदंड और गाइड लाइन के अनुसार कोरोना टीका अवश्य लगवाएं। जिन लोगों को प्रिकॉशन डोज लगवानी है, वे डोज अवश्य लगवाएं। बघेल ने कहा है कि कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है, इसलिए सभी लोग कोरोना गाइडलाइन का पालन करें।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 May 2022

raipur, Dr. Mahant congratulated , Parshuram Jayanti ,Akshaya Tritiya

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत ने भगवान परशुराम की जयंती एवं अक्षय तृतीया के अवसर पर प्रदेशवासियों को दी बधाई शुभकामनाएं। डॉ. महंत ने कहा कि, भगवान परशुराम जिन्हें विष्णु जी का छठा अवतार कहा जाता है। परशुराम जयंती वैशाख माह के शुक्ल पक्ष तृतीया को मनाई जाती है। अक्षय तृतीया को परशुराम जयंती के रूप में मनाया जाता है। परशुराम का तेज और शौर्य ही था कि उन्होंने कार्तवीर्य सहस्त्रार्जुन का वध करके अराजकता को समाप्त किया तथा नैतिकता और न्याय का साथ दिया। परशुराम पृथ्वी के पाप बोझ को नष्ट करने और सभी प्रकार की बुराई को दूर करने के लिए आए थे। इस दिन से हिंदू संस्कृति के स्वर्ण युग की शुरुआत हुई है और इसे पूरे भारत में हर्ष और उल्लास के साथ मनाया जाता है। डॉ महंत ने कहा कि, भगवान परशुराम जी ने हमेशा जरूरतमंद लोगों की मदद की। इस दिन शुभ मुहूर्त देखे बिना ही कार्य किए जाते हैं क्योकि इस दिन को शुभ माना जाता है। परशुराम जयंती को हिंदुओं द्वारा समर्पण और उत्साह के साथ मनाया जाता है। मूल रूप से परशुराम का नाम राम था। डॉ. महंत ने कहा कि, अक्षय का अर्थ होता है, जिसका क्षय न हो। इसलिए माना जाता है कि इस तिथि को किए गए कार्यों के परिणाम का क्षय नहीं होता है। इस दिन को स्वयंसिद्ध मुहूर्त माना गया है। समस्त शुभ कार्यों के अलावा प्रमुख रूप से शादी, स्वर्ण खरीदने, नया सामान, गृह प्रवेश, पदभार ग्रहण, वाहन क्रय, भूमि पूजन तथा नया व्यापार प्रारंभ कर सकते हैं। अक्षय तृतीया के दिन स्नान, ध्यान, जप-तप करना, हवन करना, स्वाध्याय और पितृ तर्पण करने से पुण्य मिलता है। अक्षय तृतीया के दिन पंखा, चावल, नमक, घी, चीनी, सब्जी, फल, इमली और वस्त्र वगैरह का दान शुभ माना गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 May 2022

raipur, Chief Minister Baghel, ate sacks and stale , workers

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अंतर्राष्ट्रीय श्रम दिवस के अवसर पर रविवार को श्रमिकों का सम्मान करते हुए राजधानी रायपुर के बीटीआई मैदान में आयोजित राज्यस्तरीय श्रमिक सम्मेलन में श्रमिकों के साथ जमीन पर बैठकर बोरे-बासी खाया। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री ने श्रम दिवस के अवसर पर आमजनों से बोरे-बासी खाकर श्रमवीरों का सम्मान करने का आव्हान किया था। मुख्यमंत्री ने बोरे-बासी के साथ छत्तीसगढ़ी पारंपरिक व्यंजन दही, आम के अथान, लाईबरी, बिजैरी, पापड़, गोंदली, दही मिर्ची के साथ में अमारी, लाल भाजी का आनंद लिया। मुख्यमंत्री सहित अन्य अतिथियों को पारंपरिक कांसे का पात्र ‘‘बटकी’’ में बोरे-बासी परोसा गया और कांसे के ही गिलास में पेयजल दिया गया। इस अवसर पर श्रम मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया, आबकारी मंत्री कवासी लखमा, संसदीय सचिव विकास उपाध्याय, विधायक वृहस्पति सिंह, अनीता योगेन्द्र शर्मा, छत्तीसगढ़ गृह निर्माण मंडल के अध्यक्ष कुलदीप जुनेजा, छत्तीसगढ़ भवन संन्निर्माण कर्मकार कल्याण मंडल के अध्यक्ष सन्नी अग्रवाल, श्रम कल्याण मंडल के अध्यक्ष सफी अहमद, छत्तीसगढ़ राज्य खाद्य आपूर्ति निगम के अध्यक्ष रामगोपाल अग्रवाल, छत्तीसगढ़ राज्य खनिज विकास निगम के अध्यक्ष गिरीश देवांगन, महिला आयोग की अध्यक्ष डॉ. किरणमयी नायक तथा श्रमिक उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 May 2022

raipur, truck hit the car ,former BJP minister

रायपुर। भाजपा के पूर्व मंत्री विक्रम उसेंडी सड़क हादसे का शिकार हो गए हैं। तेज रफ्तार ट्रक ने उनकी कार को ठोकर मार दी है। गनीमत रही कि हादसे में भाजपा नेता को हादसे में किसी तरह की चोट नहीं आई। हालंकि उनकी कार बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई है। जानकारी के अनुसार भाजपा राष्ट्रीय पदाधिकारी कोंडागांव पहुंचे थे। यहां पर पदाधिकारी, पूर्व मंत्री, विधायकों की बैठक हो रही थी, जिसमें पूर्व मंत्री विक्रम उसेंडी भी पहुंचे थे। बैठक खत्म होने के बाद विक्रम उसेंडी सर्किट हाउस के लिए निकले थे। इस दौरान कोंडागांव के चावरा स्कूल के पास एनएच-30 पर पीछे से आ रही तेज रफ्तार ट्रक ने विक्रम उसेंडी की कार को पीछे से टक्कर मार दी। इस हादसे में कार बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई। हादसे में विक्रम उसेंडी सहित कार में सवार सभी लोग सुरक्षित बताए जा रहे हैं, जिन्हें दुर्घटनाग्रस्त कार से निकाल कर दूसरी कार से सर्किट हाउस भेजा गया है। घटना के बाद आरोपित ट्रक चालक को गिरफ्तार कर लिया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 May 2022

raipur, Bhupesh cabinet ,approved decision

रायपुर। छत्तीसगढ़ में भूपेश कैबिनेट ने 1 नवंबर 2004 से नियुक्त शासकीय सेवकों के लिए नवीन अंशदायी पेंशन योजना के स्थान पर पुरानी पेंशन योजना लागू करने के लिए अपनी सहमति दे दी है। राज्य सरकार ने नवीन अंशदायी पेंशन योजना के लिए वेतन से की जा रही 10 प्रतिशत की मासिक अंशदान की कटौती 1 अप्रैल 2022 से समाप्त कर सामान्य भविष्य निधि नियम के अनुसार मूल वेतन का न्यूनतम 12 प्रतिशत कटौती के प्रस्ताव को सहमति दी गई है। रविवार को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में उनके निवास कार्यालय में मंत्रिपरिषद की बैठक हुई। बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए। राज्य सरकार ने पुरानी पेंशन योजना लागू करने के अलावा राज्य के युवाओं के हित में एक बड़ा फैसला लेते हुए छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग, छत्तीसगढ़ व्यावसायिक परीक्षा मण्डल एवं विशेष कनिष्ठ कर्मचारी चयन बोर्ड की आयोजित होने वाली परीक्षाओं के शुल्क माफ करने का निर्णय लिया है।   कैबिनेट बैठक के बाद मंत्रिमंडल के फैसलों की जानकारी देते हुए कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने बताया कि अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति के व्यक्तियों को मात्रात्मक त्रुटि के कारण जाति प्रमाणपत्र प्राप्त करने में हो रही कठिनाइयों को दूर करने के उद्देश्य से अंग्रेजी में अधिसूचित जाति को मान्य करने तथा जाति प्रमाण पत्रों में अंग्रेजी में ही अधिसूचित जाति का उल्लेख करने का निर्णय लिया गया। छत्तीसगढ़ सरकार ने मंजूरी प्राप्त रियल एस्टेट प्रोजेक्टों जिसमें 75 लाख रुपये बाजार मूल्य तक आवासीय मकानों एवं फ्लैट्स में रजिस्ट्री शुल्क में दो प्रतिशत की छूट की प्रभावशीलता अवधि को 31 मार्च 2023 तक बढ़ाया गया है।   उन्होंने बताया कि राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना में हितग्राही परिवार के मुखिया को वार्षिक आधार पर प्रदाय सहायता राशि 6 हजार से बढ़ाकर 7 हजार रुपये तथा प्रदेश के अनुसूचित क्षेत्र में आदिवासियों के देव स्थलों पर पूजा करने वाले बैगा, गुनिया, पुजारी, देव स्थल के हाट पाहार्या एवं बाजा मोहरिया को जिनका आदिवासियों के सांस्कृतिक जीवन और सामाजिक संस्कारों में विशेष महत्वपूर्ण भूमिका है, उन्हें भी इस योजना के तहत लाभ प्रदान करने का निर्णय लिया गया। छत्तीसगढ़ राज्य प्रत्याभूति मोचन निधि योजना-2022 प्रारंभ करने का निर्णय लिया गया। विशुद्ध रूप से राजनीतिक आंदोलनों से संबंधित प्रकरणों को जनहित में न्यायालय से वापस लिए जाने के संबंध में गठित मंत्रि-परिषद की उप समिति द्वारा अनुशंसित 32 प्रकरणों को वापस लेने के प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया।     छत्तीसगढ़ अमर जवान ज्योति स्मारक की स्थापना के लिए नवा रायपुर अटल नगर विकास प्राधिकरण को निर्माण एजेंसी नियुक्त करने का निर्णय लिया गया। छत्तीसगढ़ सिविल सेवा (आचरण) नियम 1965 में संशोधन के प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया। मंत्रिपरिषद ने पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के सहायक मानचित्रकर के 125 पदों पर नियुक्ति के लिए जारी चयन सूची का एक वर्ष तक प्रभावशील रहने की वैद्यता अवधि को शिथिल करने की सहमति दी गई।     छत्तीसगढ़ स्वामी विवेकानंद तकनीकी विश्वविद्यालय (संशोधन) विधेयक-2022 के प्रारूप का अनुमोदन किया गया। छत्तीसगढ़ शासन भण्डार क्रय नियम-2002 (यथा संशोधित 2022) में संशोधन के प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया। राज्य की औद्योगिक नीति 2019-24 के अंतर्गत वनांचल उद्योग की स्थापना हेतु रियायत के साथ ही साथ छत्तीसगढ़ औद्योगिक भूमि एवं भवन प्रबंधन नियम 2015 (यथा संशोधित-2022) की कंडिका 3.11 शेडों/फ्लैटेड फैक्ट्रियों (बहु मंजिला भवन के शेड) का भाड़ाक्रय पद्वति के अंतर्गत आबंटन नियम में संशोधन के प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया।     संचालनालय आयुष के अंतर्गत स्टेनो टायपिस्ट के रिक्त पद की पूर्ति हेतु परीक्षा परिणाम की वैद्यता अवधि को एक वर्ष बढ़ाने का निर्णय लिया गया।     वाणिज्यिक कर विभाग के अंतर्गत चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियाें से सहायक वर्ग-तीन के पद पर पदोन्नति प्रदान किए जाने हेतु पदोन्नति का कोटा एक बार 25 प्रतिशत के स्थान पर 50 प्रतिशत करने का निर्णय लिया गया।     छत्तीसगढ़ राज्य में युवाओं के लिए रोजगार के नए अवसर तैयार करने छत्तीसगढ़ रोजगार मिशन का गठन तथा राजीव मितान क्लब योजना लागू की गई है। इनके वित्तीय पोषण और क्रियान्वयन हेतु सभी प्रकार के विक्रय, दान, भोग बंधक या तीस वर्ष से अधिक की कालावधि के पट्टे पर स्टाम्प शुल्क की राशि पर कुल 12 प्रतिशत की दर से उपकर अधिरोपित किए जाने हेतु प्रस्तावित छत्तीसगढ़ उपकर (संशोधन) अध्यादेश-2022 का अनुमोदन किया गया।     आवासीय मकानों तथा फ्लैट्स पर पंजीयन शुल्क से छूट देने के संबंध में बाजार मूल्य (गाईड लाईन) एवं पंजीयन शुल्क के युक्तियुक्तकरण संबंधी अधिसूचना का कार्योत्तर अनुमोदन किया गया। लोक निर्माण विभाग में प्रमुख अभियंता का एक अतिरिक्त पद सृजित करने का निर्णय लिया गया। छत्तीसगढ़ राज्य जल संसाधन विकास नीति-2022 के प्रारूप का अनुमोदन किया गया।     जल संसाधन विभाग में डिप्लोमा/डिग्रीधारी अमीनों को विभाग में रिक्त उप अभियंताओं (सिविल/वि./यां) के पदों पर नियुक्त करने हेतु विभाग के प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया।छत्तीसगढ़ टूरिज्म बोर्ड द्वारा संचालित इकाइयों के लिए रियायती दर पर होटल बार लायसेंस प्रदाय किए जाने का निर्णय लिया गया।   स्थानीय लोगों को रोजगार के अवसर प्रदान करने और पर्यटकों की सुविधा में वृद्धि की दृष्टि से छत्तीसगढ़ टूरिज्म बोर्ड के अधीन 26 इकाइयों को लीज पर दिए जाने का निर्णय लिया गया।   नगर पालिक निगमों के अचल संपत्तियों के अंतरण स्वीकृति के अधिकार जो राज्य शासन में निहित हैं, को छग नगर पालिक निगम अधिनियम 1956 की धारा 426 बी के प्रावधान अनुसार संबंधित जिले के कलेक्टर को प्रत्यायोजित करने के प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया।   नगर पालिका और नगर पंचायत के अचल संपत्तियों के अंतरण स्वीकृति के अधिकार जो राज्य शासन में निहित हैं, को छग नगर पालिका अधिनियम 1961 की धारा 345 के प्रावधान अनुसार संबंधित जिले के कलेक्टर को प्रत्यायोजित करने के प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया।   नगर पालिक निगम रायपुर की स्वामित्व के ग्राम डुमरतराई स्थित भूखण्ड का विक्रय फ्री-होल्ड के रूप में करने हेतु क्रियान्वयन की शक्तियां कलेक्टर रायपुर को प्रत्यायोजित करने के प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया।   नगरीय निकायों के स्वयं के आधिपत्य या स्वामित्व के लीज होल्ड पर आबंटित आवासीय या व्यवसायिक भवनों, फ्लैट्स, भू-खण्डों, परिसर और दुकानों का संबंधित नगरीय निकाय को राजस्व विभाग से विधिवत भू-स्वामित्व प्राप्त होने पर शर्तो के अधीन फ्री-होल्ड के रूप में संपरिवर्तन किया जाने का अनुमोदन किया गया।   आदिवासियों की स्वयं की भूमि में वृक्ष कटाई की प्रक्रिया को सरलीकृत करने हेतु छत्तीसगढ़ आदिम जनजातियाें का संरक्षण (वृक्षों में हित) संशोधन विधेयक-2022 के प्रारूप का अनुमोदन किया गया। छत्तीसगढ़ भू-राजस्व संहिता (संशोधन) विधेयक-2022 के प्रारूप का अनुमोदन किया गया।   मिट्टी की उर्वरा शक्ति के पुनर्जीवन हेतु रासायनिक खादों एवं कीटनाशकों के बदले वर्मी कम्पोस्ट खाद के उपयोग के साथ गौ-मूत्र एवं अन्य जैविक पदार्थो के उपयोग को बड़े पैमाने पर बढ़ावा देने के उद्देश्य से इस वर्ष अक्षय तृतीया 3 मई 2022 से प्रदेश में माटी पूजन महा अभियान का शुभारंभ करने का निर्णय लिया गया। माटी पूजन का कार्यक्रम क्षेत्र विशेष की परंपरा अनुसार पारंपरिक रूप से मनाया जाएगा।   मुख्यमंत्री की घोषणा के अनुक्रम में दुर्ग-भिलाई औद्योगिक क्षेत्र में सिटी बस प्रारंभ किए जाने एवं नवीन मार्गो के प्रकाशन के संबंध में परिवहन मंत्री को अधिकृत किया गया। सार्वजनिक वितरण प्रणाली अंतर्गत अप्रैल 2022 से मार्च 2023 तक आवश्यक शक्कर वितरण हेतु सहकारी शक्कर कारखानों में शक्कर क्रय करने का निर्णय लिया गया।   प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के समकक्ष छत्तीसगढ़ खाद्य पोषण सुरक्षा अधिनियम के अंतर्गत जारी राशनकार्डो में अप्रैल 2022 से सितंबर 2022 तक अतिरिक्त खाद्यान्न एवं मासिक पात्रता का चावल निःशुल्क वितरण करने का निर्णय लिया गया। छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत मण्डल अंतरण योजना नियम-2010 में संशोधन के प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया।   छत्तीसगढ़ प्रदेश में विभिन्न विभागों निगम, मण्डल, कंपनी, बोर्ड के अधीन शासकीय भूमि पर निर्मित जर्जर शासकीय परिसर के व्यवस्थित विकास एवं सदुपयोग हेतु रिडेव्हलपमेंट कार्ययोजना का अनुमोदन किया गया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 May 2022

raipur, Soldiers posted , Chhattisgarh

रायपुर। आज मजदूर दिवस के अवसर पर छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित जिला नारायणपुर में तैनात जिला पुलिस बल, छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल और डीआरजी के जवानों ने बोरे बासी खाया। उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ शासन के आह्वान पर मजदूर दिवस के अवसर पर जवानों ने भी बोरे बासी खाया। बोरे बासी खाकर जवान आत्मविभोर हो गए और बोले धन्यवाद सीएम सर, आपने बचपन और घर की याद दिला दी। जवानों ने कहा कि अब हम प्रयास करेंगे कि गर्मियों में अक्सर बोरे बासी खाएँ। डीआरजी टीम प्रभारी मुकेश्वर ध्रुव ने कहा कि गर्मी के दिनों में अगर किसी दिन रात चाँवल बच जाएगी तो वे जवानों के साथ सुबह बोरे बासी जरूर खाएँगे। जिला पुलिस बल, नारायणपुर के कुछ जवानों में अपने सोशल मीडिया अकॉउंट में बोरे बासी का फोटो भी शेयर किया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 May 2022

raipur, Chief Minister , state is continuously ,rote statements, BJP

रायपुर। छत्तीसगढ़ के प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने कहा है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री लगातार रटे -रटाए बयान दे रहे है और जब उनसे राज्य के बारे में राज्य की समस्याओं के बारे में सवाल किया जाता है तो वो झल्ला जाते है ,कई बार कह देते है मैं इसके -उसके सवाल का जवाब नही देता।आखिर वो अपने कार्यों का रिपोर्ट कार्ड देने के बदले राष्ट्रीय मुद्दों पर ज्यादा चर्चा क्यों करते है? श्री साय ने रविवार को व्यंग करते हुए कहा कि दिल्ली की बैठक पर दिए जाने वाले बयानों से उनकी विद्वता का आभास हो रहा है ।केवल और केवल राज्य और केंद्र के बीच टकराव की स्तिथि बनाना,केंद्र के पैसे से खुद की राजनीति चमकाना,केंद्र की योजनाओं को अपने नाम से चलाना,केंद्र के प्रॉजेक्ट पर अपना फोटो छपवाना ,केंद्र के सारे कार्यों का श्रेय खुद लेकर और केंद्र को कोसना ,यही राज्य सरकार और उनके मुखिया का काम रह गया है। श्री साय ने कहा अब कांग्रेस सरकार को काफी समय हो गया है और अब उनसे पूछे जाने वाले सवालों का जवाब देने से भागना इस बात की पुष्टि करता है कि वह स्वयं इस बात को मान चुके है की उन्होने जनता को धोखा दिया है और उधर उधर की बात करने से पहले बताए आख़िर किसानों का 2 साल का बोनस कब देंगे। संपत्ति कर कब माफ करेंगे? शराबबंदी कब करेंगे?सभी को 20 लाख का मुफ्त इलाज देने वाली यूनिवर्सल हेल्थ स्कीम कब लायेंगे?

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 April 2022

raipur, no shortage of coal ,Chief Minister

रायपुर। शनिवार को राज्यों के मुख्यमंत्री, प्रधान न्यायाधीश और उच्च न्यायालयों के न्यायाधीश,के कार्यक्रम में शामिल होने दिल्ली पहुंचे मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि अगर देश में कोयले की कोई कमी नहीं है, तो यात्री रेल सेवाएं क्यों बंद कर दी गईं हैं ? मीडिया से चर्चा करते हुए उन्होंने बताया कि छत्तीसगढ़ से 23 मालगाड़ियां रद्द हुईं थी। फिर केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव से बात करने के बाद 6 ट्रेनें बहाल की गई। सीएम भूपेश बघेल ने सवाल उठाते हुए कहा कि घरेलू एलपीजी वैट के दायरे में नहीं आती फिर भी उसका दाम 400 से 1050 रुपये क्यों हो गया है। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि अगर कीमत घटाना ही है तो पेट्रोल-डीजल पर सेस टैक्स खत्म कर देना चाहिए।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 April 2022

raipur, Air tour, political battle , Bhupesh , TS Singhdev

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव के बीच सियासी जंग जारी है। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री जहां भूपेश बघेल चार मई से पूरे प्रदेश का दौरा करने वाले हैं। वहीं इसी दिन से स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव भी सम्पूर्ण छत्तीसगढ़ का दौरा शुरू कर देंगे। इन दौरों के जरिये दोनों नेता विधानसभा चुनाव से पहले अपना जनाधार भी तलाश करेंगे। सिंहदेव इन दौरों में अपने राजनीतिक अस्तित्व को प्रदेश में तय करेंगे।उनके नजदीकी लोगों के अनुसार इसके बाद वे कांग्रेस में अपनी राजनीतिक भूमिका को लेकर अंतिम निर्णय ले सकते हैं। मुख्यमंत्री बघेल 4 मई से छत्तीसगढ़ की सभी 90 विधानसभा सीटों में जाएंगे और कामकाज की प्रगति को परखेंगे । इस दौरान भूपेश बघेल स्थानीय स्तर पर कांग्रेस सरकार के परफार्मेंस को जांचने के बाद आम लोगों से पार्टी के बारे में फीडबैक भी लेंगे। मुख्यमंत्री हेलीकाप्टर से हर दिन किसी विधानसभा क्षेत्र के तीन ग्रामों में उतरेगा। मुख्यमंत्री सरगुजा संभाग के बलरामपुर जिले के सामरी विधानसभा क्षेत्र से अपने दौरे की शुरुआत करेंगे। वहीं स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंहदेव अपने अभियान की शुरुआत निजी हैलीकॉप्टर से दंतेवाड़ा स्थित दंतेश्वरी मंदिर से करेंगे। इस दौरान वह आम लोगों और सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ सीधा संवाद करेंगे। वह पूरे प्रदेश में अपने जनाधार को भी तौलेंगे और कार्यकर्ताओं से सम्पर्क साधेंगे। एक ही समय में छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री और सिंहदेव परस्पर समानांतर प्रदेशव्यापी यात्राओं को चलाकर क्या संदेश देना चाहते है,इसे कांग्रेस के सभी कार्यकर्त्ता समझ रहे हैं । राजनीतिक छल -बल में जहां भूपेश आगे रहे हैं, वहीं सिंहदेव कांग्रेस आलाकमान के वायदे पर ईमानदारी से टिके रहे हैं। ढाई -ढाई साल के मुख्यमंत्री पद के तय फार्मूले को लेकर आलाकमान भी अभी तक भूपेश के आगे असहाय सा ही महसूस हुआ है।इस मामले में भूपेश की राजनीतिक वादाखिलाफी को लेकर टीएस की राजनीतिक शालीनता जरूर मर्माहत हुई है

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 April 2022

raipur, What happened , interests of Chhattisgarh, Dr. Raman,Congress

रायपुर। पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात की अपनी तस्वीर सोशल मीडिया में शेयर किया है। प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि रमन सिंह प्रदेश के 15 साल मुख्यमंत्री रहे हैं। भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री से मुलाकात में राज्य के हितों के लिये क्या बात किया? छत्तीसगढ़ की जनता को बताना चाहिए कि प्रधानमंत्री के साथ उनकी क्या बात हुई? छत्तीसगढ़ के हितों के संबंध में उन्होंने प्रधानमंत्री से क्या-क्या चर्चाएं की? प्रदेश में किसान बड़ी मात्रा में धान पैदा करते हैं, धान का सही नियोजन राज्य के सामने आने वाले दिनों बड़ी चुनौती बनने जा रही है। प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने केंद्र सरकार से धान से एथेनॉल बनाने के लिये अनुमति मांगा है। धान से एथेनॉल बनाने के लिये छत्तीसगढ़ को अनुमति देने के संबंध में रमन सिंह ने प्रधानमंत्री से बात किया अथवा नहीं। यदि बात किया तो प्रधानमंत्री ने क्या आश्वासन दिया रमन सिंह प्रदेश की जनता को बतायें।   सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि छत्तीसगढ़ को पचपन हजार करोड़ रुपये का केंद्र सरकार से लेनदारी है। राज्य का विकास एवं अन्य कार्य इस रुपयों के लिये प्रभावित हो रही है। रमन सिंह ने प्रधानमंत्री से छत्तीसगढ़ के बकाया राशि के लिये क्या अनुरोध किया? गर्मी छुट्टी और त्योहार के सीजन में छत्तीसगढ़ से चलने वाली केंद्र सरकार ने 23 ट्रेनों को रद्द कर दिया। पहले भी दो साल में छत्तीसगढ़ से चलने वाली लगभग 109 ट्रेनों को बंद किया है। रमन सिंह ने मोदी से राज्य की जनता के हित में पुनः सभी ट्रेनों को चलाने के संबंध में क्या अनुरोध किया और प्रधानमंत्री ने क्या आश्वासन दिया। उनसे राज्य की जनता इस सवाल का भी जवाब जानना चाहती है।   सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि देश में अभी कोयले की विकट समस्या है। छत्तीसगढ़ की स्थिति भी अच्छी नहीं है। कोयले के बारे में उन्होंने बात की या नहीं? इसी तरह और भी अनेक मुद्दे छत्तीसगढ़ के हितों के संदर्भ में है और जनता जानना चाहती है कि उन्होंने प्रधानमंत्री के समक्ष छत्तीसगढ़ की आवाज उठाई या नहीं? या हमेशा की तरह मौनी बाबा ही बने रहे?

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 April 2022

raipur, Instructions ,committee regarding, Mitanins , MNREGA employees

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से शुक्रवार को राजधानी स्थित निवास कार्यालय में प्रदेश मितानिन संघ और छत्तीसगढ़ मनरेगा कर्मचारी महासंघ के प्रतिनिधि मंडल ने विधायक द्वय गुलाब कमरो एवं यू.डी. मिंज के नेतृत्व में मुलाकात की। दोनों संगठन ने मुख्यमंत्री को अपनी मांगों के संबंध में ज्ञापन सौंपा। मुख्यमंत्री ने उनकी मांगों के संबंध में मुख्य सचिव की अध्यक्षता में कमेटी बनाने को कहा। यह कमेटी इन संगठनों की मांगों का परीक्षण कर रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी। इस पर प्रतिनिधि मंडल मुख्यमंत्री के प्रति आभार व्यक्त करते हुए अपनी हड़ताल समाप्त करने की बात कही। इस अवसर पर मितानिन संघ की प्रदेश अध्यक्ष सरोह सेंगर, कार्यकारी अध्यक्ष आशा वैष्णव, मनरेगा कर्मचारी महासंघ के प्रदेश प्रांताध्यक्ष चंद्रशेखर अग्निहोत्री उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 April 2022

raipur, Late Ajit Jogi

रायपुर। छत्तीसगढ़ के पहले मुख्यमंत्री व जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जोगी) के संस्थापक स्व.अजीत जोगी की जयंती समारोह का आयोजन शुक्रवार को रायपुर में किया गया। इसे छत्तीसगढ़िया अधिकार दिवस के रूप में मनाया गया। इस मौके पर प्रदेश के बस्तर, बीजापुर, कोंडागांव, मारवाही पेंड्रा, कोटा, बिलासपुर, दुर्ग राजनांदगांव, कवर्धा, महासमुंद, मुंगेली आदि जिलों से सैकड़ों कार्यकर्ता व समर्थक पहुंचे। इस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए अमित जोगी बोले कि मेरे पिता अजीत जोगी अभी मरे नहीं है, जोगी अभी जिंदा हैं। छत्तीसगढ़ के तीन करोड़ 20 लाख के दिलों में जिंदा है और उनका आशीर्वाद जब तक मेरे सिर पर गरीबों का हाथ तब तक जोगी के अस्तित्व को कोई नहीं मिटा सकता है। इस दौरान अमित जोगी नहीं भूपेश सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि भूपेश सरकार यू टर्न लेने वाली सरकार है, भूपेश है तो भरोसा नहीं बल्कि भूपेश है तो धोखा है। गेड़ी चढ़कर, भौरा चलाकर और 100 सोंटा खाने से भी छत्तीसगढ़ का विकास नहीं होगा, बल्कि छत्तीसगढ़ के खनिज संपदा बिजली, पानी, रोजगार, हीरा, मोती कोयला, बॉक्साइट पर छत्तीसगढ़िया का पहला अधिकार होगा। तब जाकर छत्तीसगढ़ का विकास होगा। इससे पहले 15 साल एक दारू वाले बाबा थे। अब दूसरे दारू वाले कका है। जिन्होंने तीन साल में छत्तीसगढ़ को बेहाल कर दिया। कर्ज में डुबोकर कंगाल कर दिया। इस सरकार को उखाड़ फेंकना है और छत्तीसगढ़ियों की सरकार बनाकर जोगी जी के अधूरे सपने को पूरा करना है। 2023 में छत्तीसगढ़ियों की बनेगी सरकार : धर्मजीत सिंह विधायक दल के नेता धर्मजीत सिंह ने जोगी जयंती समारोह में उमड़ी भारी भीड़ को देखकर कहा कि कोने-कोने से आए जोगी कांग्रेसियों का तहे दिल से स्वागत करते हैं। यही हमारी ताकत है और इन्हीं के बदौलत हम 2023 में छत्तीसगढ़ीयों की सरकार बनाएंगे। विपरीत और कठिन परिस्थितियों में आज यह लोग जोगी कांग्रेस के साथ खड़े हैं। यह इनकी इमानदारी और निष्ठा को स्पष्ट रूप से दर्शाता है। धर्मजीत सिंह ने भूपेश सरकार पर हमला बोलते हुए कहा जो लोग हमारी पार्टी के अस्तित्व पर सवाल उठाते है वे लोग पहले अपनी पार्टी की चिंता करें। उत्तर प्रदेश में कांग्रेस के प्रदर्शन से बेहतर प्रदर्शन हमने 2018 के चुनाव में छत्तीसगढ़ में किया है। 2018 में पांच सीटें भेज कर हमने एक इतिहास रचा है अब आने वाले समय में हम सरकार बनाने का भी दम रखते हैं। जोगी कांग्रेस के प्रमुख प्रवक्ता भगवानू नायक ने बताया कि पार्टी सुप्रीमो डॉ. रेणु जोगी को एक साल का सदस्यता शुल्क पांच रुपये लेकर सदस्य बनाया गया और सदस्यता अभियान की शुरुआत की गई। कार्यक्रम को पूर्व कैबिनेट मंत्री पार्टी के वरिष्ठ नेता तिलक राम देवांगन, पूर्व विधायक डॉक्टर हरिद्वार भारद्वाज, अजीत जोगी महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष डॉ. अनामिका पाल, अजीत जोगी युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप साहू एवं छात्र संगठन के प्रदेश अध्यक्ष रवि चंद्रवंशी ने भी संबोधित किया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 April 2022

raipur, Will feel proud,food and culture, Mr. Baghel

रायपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मजदूर दिवस पर नागरिकों से बोरे-बासी खाने की अपील की है। बघेल ने कहा कि छत्तीसगढ़ मेहनतकश लोगों का प्रदेश है, इस पावन भूमि को हमारे किसानों और श्रमिक भाईयों ने अपनी मेहनत के पसीने से उर्वर बनाया है। लहलहाते खेतों की बात करें या अंधेरी खदानों से खनिज ढूंढ लाने की बात करें। कारखानों में धधकते लोहे से मजबूत स्टील बनाते हाथ हों या वनांचल में महुआ, तेंदूपत्ता जैसे वनोपज इक्कठा करने वाले हाथ हों। देश को प्रदेश को हमारे किसान भाईयों और श्रमिक भाईयों ने ही अपने मजबूत कंधों में संभाल रखा है।   एक मई को हर साल हम इन्हीं मेहनतकश लोगों के प्रति अपना आभार व्यक्त करने के लिए मजदूर दिवस मनाते हैं। हम सभी को मालूम है कि हर छत्तीसगढ़िया के आहार में बोरे-बासी का कितना अधिक महत्व है। हमारे श्रमिक भाईयों, किसान भाइयों और हर काम में कंधे से कंधा मिलाकर चलने वाली हमारी बहनों के पसीने की हर बूंद में बासी की महक है।   जब हम कहते हैं बटकी मा बासी अऊ चुटकी मा नून, तो यह श्रृंगार हमें हमारी संस्कृति से जोड़ता है। गर्मी के दिनों में बोरे बासी शरीर को ठंडा रखता है, पाचन शक्ति बढ़ाता है त्वचा की कोमलता और वजन संतुलित करने में भी यह रामबाण है। बोरे बासी में सारे पोषक तत्व मौजूद होते हैं।   हमें हमारी युवा पीढ़ी को अपने आहार और संस्कृति के प्रति गौरव का अहसास कराना बहुत जरूरी है। इसलिए मैं आप सभी से अपील करता हूं कि 1 मई को हम सब छत्तीसगढ़िया एक मई को बोरे-बासी के साथ आमा के अथान, अऊ गोंदली के साथ हर घर में बोरे-बासी खाएं और अपनी संस्कृति और विरासत पर गर्व महसूस करें। बोरेबासी सामान्यतः रात के पके हुए चांवल को पानी डालकर (बोर के) रख दिया जाता है। अगली सुबह इसमें हल्की सी खटास आ गई होती है, इसे ही बोरेबासी कहते हैं। यदि इच्छा हो तो इसमें भी दही मठा आदि डालकर इसे और खट्टा किया जा सकता है। नमक डालकर प्याज, मिर्च की चटनी, अथान (अचार) आदि के साथ खाया जाता है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 April 2022

raipur, Chhattisgarh celebrate,

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की विशेष पहल पर छत्तीसगढ़ में तीन मई अक्षय तृतीया अक्ति के दिन माटी पूजन दिवस मनाया जाएगा। इसको लेकर जोर-शोर से तैयारियां शुरू कर दी गई है। राज्य के सभी ग्राम पंचायत, जनपद पंचायत एवं जिला पंचायत स्तर पर कार्यक्रम का आयोजन कर परम्परागत रूप से माटी पूजन किया जाएगा। इस कार्यक्रम में जिलों के प्रभारी मंत्री, विधायकगण, त्रि-स्तरीय पंचायतों के सम्मानित जनप्रतिनिधिगण सहित कृषकों एवं नागरिकों को विशेष रूप से आमंत्रित करते हुए धरती माता की रक्षा हेतु शपथ ली जाएगी एवं मुख्यमंत्री के संदेश का वाचन होगा। रायपुर में तीन मई को अक्ति के दिन राज्यस्तरीय कार्यक्रम का आयोजन होगा।   कृषि उत्पादन आयुक्त डॉ. कमलप्रीत सिंह ने इस संबंध में राज्य के सभी संभागायुक्तों एवं कलेक्टरों को प्रेषित पत्र में लिखा है कि माटी पूजन दिवस का उद्देश्य मिट्टी की उर्वरा शक्ति के पुनर्जीवन हेतु रासायनिक खादों एवं कीटनाशकों के स्थान पर वर्मी कम्पोस्ट खाद के उपयोग के साथ गौ-मूत्र एवं अन्य जैविक पदार्थों के उपयोग को बड़े पैमाने पर बढ़ावा देना है। उन्होंने कहा है कि माटी पूजन अभियान के तहत प्राकृतिक खेती के प्रति किसानों एवं जनमानस की भागीदारी को बढ़ावा दिया जाएगा। इसके अंतर्गत विभिन्न गतिविधियों में रासायनिक खादों एवं कीटनाशकों के स्थान पर वर्मी कम्पोस्ट, गौमूत्र एवं जैविक खादों के उपयोग को प्रोत्साहित करने के साथ ही रासायनिक खेती से होने वाले नुकसान के प्रति किसानों को जागरूक करने एवं मानव-पशु आहार को हानिकारक रसायनों से मुक्त करना हैं।   माटी पूजन दिवस कार्यक्रम में जिले में वर्मी कम्पोस्ट के कार्य से जुड़े स्वसहायता समूह एवं गौठान समितियों के सदस्यगण, समान गतिविधियों को संचालित कर रहे गैर सरकारी संगठनो एवं समाजिक समूहों, प्रगतिशील जैविक खेती करने वाले कृषकों विद्यालय एवं महाविद्यालय के छात्र छात्राओ, स्थानीय जन प्रतिनिधियों एवं आमजन की सक्रिय भागीदारी भी सुनिश्चित की जाएगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 April 2022

raipur, Inauguration,Surgical Wing , Hummer Lab, Durg

रायपुर।जिला चिकित्सालय दुर्ग में सर्जिकल विंग और हमर लैब के लोकार्पण अवसर पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि हमर लैब के प्रारंभ होने से जिला अस्पताल में चिकित्सा सुविधाएं और भी बेहतर हो जाएंगी। यहां किये जाने वाले विभिन्न प्रकार के चिकित्सा संबंधी टेस्ट अब कम कीमत पर हो सकेंगे। एक ओर जहां निजी संस्थान में उक्त सभी महंगे टेस्ट होते हैं।हमर लैब के शुरू होने से यहा आने वाले मरीजों को कम कीमत पर आसानी से सभी टेस्ट उपलब्ध हो जाएंगे। हमर लैब की स्थापना 50 लाख रुपये की लागत से की गई है। श्री बघेल ने शुक्रवार शाम को लोकार्पण के पश्चात् स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव और जिला चिकित्सालय के डॉक्टरों और उनकी टीम को बधाई और शुभकामनाएं दी।स्वास्थ्य मंत्री श्री सिंहदेव ने मुख्यमंत्री श्री बघेल को सर्जिकल विंग और हमर लैब की शुभारंभ के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया। लोकार्पण के दौरान नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिव डहरिया, गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू, जल संसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे, विधायक अरुण वोरा की उपस्थिति में श्री सिंहदेव वर्चुअल रूप से सम्मिलित हुए। सर्जिकल यूनिट को 7 करोड़ रुपए की लागत से तैयार किया गया है। इसमें 10 बेड आईसीयू के है। हाइटेक सर्जिकल यूनिट के साथ ही क्रिटिकल केयर की सुविधा से जिला चिकित्सालय में चिकित्सकीय सुविधाओं में बढ़ोत्तरी हुई है। जिला अस्पताल में चिकित्सा सुविधाओं के विस्तार से जहां मरीजों को लाभ पहुंचेगा, वहीं मरीजों को इलाज के लिए अन्यत्र नहीं जाना पड़ेगा। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर आशा अभियान का शुभारंभ भी किया। इस अभियान के अंतर्गत सेरेब्रल पाल्सी वाले बच्चों को पोषित करने विशेष कार्यक्रम चलाया जाएगा। ऐसे बच्चों से आज मुख्यमंत्री मिले। उन्होंने अभियान की प्रशंसा की। इसके साथ ही उन्होंने किशोरी छात्राओं के हिमोग्लोबिन जांच के अभियान की शुरुआत भी की। इस अवसर पर महापौर धीरज बाकलीवाल, कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेन्द्र भुरे, एसपी बद्रीनारायण मीणा, नगर निगम दुर्ग आयुक्त हरेश मंडावी सहित स्थानीय जनप्रतिनिधि और विभागीय अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 April 2022

raipur, Police lathi charge , electrical contract employees

रायपुर।पिछले 44 दिनों से अपनी नियमितिकरण की मांग को लेकर आंदोलन पर डटे विद्युत् संविदा कर्मचारियों पर शनिवार को पुलिस का कहर टूट पड़ा। लोग जब सोकर नहीं उठे थे तब पुलिस उन्हें डंडे से मार मार कर जगा रही थी।40 प्रदर्शनकारियाें को हिरासत में लेकर जेल में डाल दिया गया है । पुलिस वाले धरनास्थल पर लगे पंडाल भी साथ ले गए। बताया जा रहा है कि पुलिस की लाठीचार्ज में 15 से अधिक प्रदर्शनकारी घायल हो गए। छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत संविदा कर्मचारी संघ के आंदोलन को समाप्त करवाने जिला प्रशासन के अधिकारी भारी पुलिस बल के साथ शनिवार की सुबह -सुबह राजधानी रायपुर के बूढ़ातालाब स्थित धरना स्थल पहुंचे। जहां प्रदर्शनकारियों को धरना आंदोलन समाप्त करने की चेतावनी के बाद अधिकारियों के निर्देश पर पुलिस ने लाठी चार्ज कर दिया। पुलिस द्वारा लाठी चार्ज किए जाने के बावजूद छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत संविदा कर्मचारी संघ के सदस्य सिर पर हाथ रखकर शांति से बैठ गए। जिस वक्त पुलिस आंदोनकारियों को पीट पीट कर घसीटकर बसों में ठूंस रही थी उस वक्त वहां जिला प्रशासन के आला अधिकारी भी मौजूद थे।विद्युत् संविदा कर्मचारी पिछले 44 दिनों से अपनी नियमितिकरण की मांग को लेकर आंदोलन पर डटे हुए हैं। पिछले दो महीने से आंदोलनरत इन विद्युत् संविदा कर्मचारियों द्वारा काम बंद करने के कारण विद्युत् लाइन की मरम्मत और मेंटनेस दोनों ही प्रभावित हो रहे हैं। इससे पहले शुक्रवार को देर शाम राजधानी में आंदोलनरत संविदा विद्युतकर्मी मुख्यमंत्री निवास घेरने निकले। इनके इस आंदोलन में फर्जी आइडी लेकर आधा दर्जन से अधिक लोगों के घुसने से बवाल मच गया। आंदोलनरत कर्मियों के अनुसार, इन लोगों ने आंदोलन के एजेंडे से हटकर नारे लगाए। संविदाकर्मियों का आरोप लगाया है कि हमारे शांतिपूर्ण आंदोलन में विघ्न डालने के लिए षड़यंत्र रचा जा रहा है।मुख्यमंत्री निवास घेराव करने के लिए निकले विद्युतकर्मियों को पुलिस ने स्मार्ट सिटी दफ्तर के पास बेरीकेड लगाकर रोक दिया था । इस बीच पुलिस के साथ झूमाझटकी भी हो गई। दूसरी ओर, पुलिस प्रशासन ने प्रदर्शनकारियों को सड़क से हटाने के लिए स्ट्रीट लाइन और धरना स्थल की बिजली काट दी। इससे और बवाल हो गया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 April 2022

raipur, CM Baghel ,expressed grief

  रायपुर। छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिला में गुरुवार की देर रात हुए दर्दनाक सड़क हादसे में एक ही परिवार के पांच लोगों की मौत पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दुःख जताते हुए शोक संतप्त परिवार के लिए संवेदना व्यक्त की है।   उल्लेखनीय है कि राजनांदगांव के खैरागढ़ गोल बाजार में रहने वाले व्यवसायी गुरूवार की देर रात सुभाष कोचर का परिवार विवाह समारोह से घर लौटने के दौरान सड़क दुर्घटना का शिकार हो गया। हादसे में कार के दुर्घटनाग्रस्त होकर पलट जाने के बाद उसमें आग लग गयी, जिससे कार में अंदर फंसे परिवार के सभी पांच सदस्यों की जिंदा जलकर मौत हो गई। घटना में सुभाष कोचर सहित उनकी पत्नी कांति देवी कोचर, बेटी भावना कोचर, कुमारी वृद्धि कोचर और कुमारी पूजा कोचर शामिल है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 April 2022

raipur, Wholesale corridor, Raipur in Durg,Baghel

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेन ने कहा कि दुर्ग में भी रायपुर की तरह होलसेल कॉरिडोर बनेगा। उन्होंने शुक्रवार को जिला मुख्यालय दुर्ग में जिला व्यापार एवं उद्योग केंद्र के नवीन कार्यालय भवन के लोकार्पण कार्यक्रम में उद्योगपतियों की मांग पर यह घोषणा की। मुख्यमंत्री ने दुर्ग कलेक्टर को इसके लिए जमीन चिन्हांकन के निर्देश दिए। कार्यक्रम में गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू, कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे, नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री डॉ.शिवकुमार डहरिया और राज्य भंडार गृह निगम के अध्यक्ष अरूण वोरा सहित अनेक जनप्रतिनिधि भी उपस्थित थे। बघेल ने कहा कि दुर्ग औद्योगिक जिला है, लेकिन देश में औद्योगिक केंद्र की पहचान भिलाई से है। बीएसपी की स्थापना के बाद यहां उद्योगों की शुरुआत हुई। दुर्ग के निर्माण में यहां के उद्योगों की बड़ी भूमिका है। बीच के दौर में निजीकरण का दौर चला और श्रमिकों की मांग घटी। तकनीक का असर पड़ा है। बीएसपी प्रदेश के उद्योगों के लिए रीढ़ की तरह है। मुख्यमंत्री ने कहा कि दुर्ग जिला सब्जी और फल का भी हब रहा है। यहां के किसान ऐसी क्रॉप भी उगा रहे हैं जिनकी मांग विदेशों में भी है। उद्योगपतियों के साथ बैठकों के बाद हमने उद्योग नीति बनाई, जिसमें सभी राज्यों की अच्छी नीतियों का समावेश रहा। कोरोना काल में लगातार मैं उद्योग संगठनों से मिलता रहा, उनकी समस्याएं जानी और इसका निराकरण किया। हमने प्रदेश के उन क्षेत्रों में भी उद्योग प्रसार की नीति अपनाई जहां पर उद्योग कम थे। मैंने फाइनल ड्राफ्ट बनने के बाद भी उद्योगपतियों से चर्चा की। उन्होंने कहा कि इस नीति में एनपीए नहीं होगा। बघेल ने कहा कि जब उद्योग की बात आती है तो रोजगार के उद्देश्य से इसकी मांग होती है लेकिन कई बार स्थानीय स्तर पर विरोध भी होता है। हमने स्थानीय लोगों से कहा कि स्थानीय स्तर पर रोजगार हो तो आपको पलायन की जरूरत नहीं पड़ेगी। मुख्यमंत्री ने बताया कि कोरोना काल के दौरान ऐसे स्थल के लोगों से बात हुई जहाँ काफी संख्या में श्रमिकों को वापस लाया गया था। हमने उन्हें बताया कि स्थानीय स्तर पर उद्योग के कार्य हो सकें, इसके लिए हमने ऑरेंज एरिया चिन्हांकित किये। चैम्बर के अधिकारियों से बस्तर में बैठक ली। उन्हें बताया कि जब आप उद्योग लगाएं तो स्थानीय स्तर पर सर्वे कर उद्योग की जरूरत की मुताबिक लोगों का कौशल उन्नयन करें, जब लोगों को उद्योगों में रोजगार के अवसर दिखेंगे, तो वे लोग उद्योगों का समर्थन करेंगे क्योंकि अब उनके लिए आपके पास रोजगार की संभावना है। मुख्यमंत्री ने अपने सम्बोधन के दौरान मिलर्स के लिए किए गए कार्यों को भी रेखांकित किया। मिलिंग के चार्ज को बढ़ा दिया गया। संग्रहण केंद्रों में नाममात्र का धान रह गया है। हमने ग्रामीण क्षेत्रों में गौठान को भी ग्रामीण उद्योग के रूप में बदला है और रूरल इंडस्ट्रियल पार्क के रूप में इसे विकसित करने की दिशा में काम कर रहे हैं। आप अपने व्यावसाय और उद्योग की जरूरत के मुताबिक यहां काम करने वाले स्व सहायता समूहों से उत्पाद बनवा सकते हैं। आपके उद्योगों के लिए इन रूरल पार्क से काफी मदद मिल सकती है। आप लोग विजनरी हैं, सरकार की पूरी सहायता आपके साथ हैं। आप आगे बढ़े, प्रदेश का औद्योगिक परिदृश्य शानदार रूप से उन्नत होगा। मुख्यमंत्री ने केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी से हुई अपनी चर्चा का भी उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि प्रदेश के ऊर्जा परिदृश्य में काफी संभावना है। हमने कहा कि धान से एथेनॉल बनाने की अनुमति मिलने पर इस उद्योग के लिए बड़ा काम हो सकता है। किसान उन्मुखी नीतियों का लाभ बाजार को मिला है और शहरी अर्थव्यवस्था भी इससे लाभान्वित हुई है। कोर सेक्टर और इससे बाहर हम सबको अवसर देंगे। हमारे उद्योगपति ही हमारे उद्योग के ब्रांड एम्बेसडर हैं। मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम के दौरान उद्योगपतियों से सीधी बातचीत की।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 April 2022

raipur,  heat , summer increased

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर सहित प्रदेश के अन्य हिस्सों में गर्मी की तपिश महसूस होने लगी है। मौसम विभाग ने गुरुवार को प्रदेश में लू चलने की आशंका जताई है। मंगलवार और बुधवार को जो हालात थे, उसके आधार पर मौसम विभाग केंद्र ने कहा है कि आने वाले कुछ दिनों में सरगुजा संभाग, बिलासपुर संभाग और दुर्ग संभाग के उत्तरी भाग में (राजनांदगांव, दुर्ग, कबीरधाम और बेमेतरा) स्थित जिलों में ग्रीष्म लहर चल सकती है। राजधानी रायपुर में बुधवार का अधिकतम तापमान 44 डिग्री सेल्सियस पहुंचा है। वहीं मौसम विभाग ने चेतावनी भी दी है कि गुरुवार को राजधानी रायपुर सहित सरगुजा, बिलासपुर और दुर्ग में लू चलेगी। दोपहर की तेज धूप के साथ ही रात में भी गर्मी बढ़ती जा रही है। रायपुर और राजनांदगांव में न्यूनतम तापमान में भी सामान्य से पांच डिग्री सेल्सियस की बढ़ोतरी हुई। रायपुर का न्यूनतम तापमान 30.2 डिग्री सेल्सियस और राजनांदगांव का न्यूनतम तापमान 28.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। दोपहर के वक्त 12 बजे से लेकर चार बजे तक तो सूरज की तपिश और गर्म हवा और भी ज्यादा बढ़ जाती है। दोपहर की गर्मी व उमस के चलते दोपहर के वक्त सड़कों में सन्नाटा पसरने लगा है। जबरदस्त गर्मी के चलते इन दिनों ठंडे पेय पदार्थों के साथ ही एसी, कूलर की मांग जबरदस्त बढ़ गई है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 April 2022

raipur, Union Transport Minister, Nitin Gadkari

रायपुर। केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी गुरुवार को अपने एक दिवसीय दौरे पर गडकरी रायपुर पहुंच चुके हैं। स्वामी विवेकानंद एयरपोर्ट पर प्रदेश के पूर्व सीएम रमन सिंह समेत तमाम भाजपा नेता उनका स्वागत करने के लिए पहुंचे। इस दौरान कांग्रेस विधायक विकास उपाध्याय भी एयरपोर्ट पर मौजूद रहे। लोकनिर्माण एवं गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने केंद्रीय मंत्री का स्वागत करते हुए राज्य में सड़कों के निर्माण के प्रगति की जानकारी देते हुए बताया कि राज्य को मिले सभी कामों को तेजी से पूरा करने का प्रयास किया जा रहा है। लोकनिर्माण मंत्री ताम्रध्वज साहू ने कहा कि नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में सड़कों का तेजी से काम किया जा रहा है। मुख्यमंत्री हर महीने इसकी समीक्षा करते हैं। गृहमंत्री ने बालोद गुंडरदेही को राष्ट्रीय मार्ग घोषित करने का आग्रह किया। इसके साथ ही भारत माला परियोजना के मुआवजा में अंतर का मुद्दा उठाते हुए सभी किसानों को एक समान मुआवजा देने का आग्रह किया। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि आज छत्तीसगढ़ के लिए सौभाग्य की बात है। राज्य को नौ हजार करोड़ रुपये से अधिक की सौगात देने के लिए केंद्रीय मंत्री गडकरी आए हैं। अटल बिहारी वाजपेयी को याद करते हुए कौशिक ने कहा कि उन्होंने गांव -गांव को सड़कों से जोड़ने का काम किया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 April 2022

raipur, Chhattisgarh ,eading state ,Minister Choubey

रायपुर। छत्तीसगढ़ सरकार की किसान हितैषी नीतियों और कार्यक्रमों के क्रियान्वयन की जमीनी हकीकत देखने तमिलनाडु राज्य के कावेरी नदी किसान संरक्षण समिति का प्रतिनिधिमंडल छत्तीसगढ़ पहुंचा था। छत्तीसगढ़ के दो दिवसीय प्रवास के दौरान इस प्रतिनिधि मंडल ने कई इलाकों का दौरा किया और किसानों से मुलाकात की। सुराजी गांव योजना के नरवा, गरूवा, घुरवा और बाड़ी कार्यक्रम के क्रियान्वयन की स्थिति देखी एवं रायपुर के छेरीखेड़ी स्थित मल्टी एक्टिविटी सेंटर सहित कवर्धा जिले में गन्ने की खेती का भी मुआयना किया। तमिलनाडु के किसानों को प्रतिनिधिमंडल ने बुधवार की देर शाम छत्तीसगढ़ के कृषि एवं जल संसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे के रायपुर स्थित निवास कार्यालय में सौजन्य मुलाकात की और तमिलनाडु राज्य तथा छत्तीसगढ़ में खेती-किसानी की स्थिति को लेकर विस्तार से चर्चा की। इस अवसर पर प्रतिनिधिमंडल ने कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे को तमिलनाडु का प्रसिद्ध ब्लैक राईस और ऑर्गेनिक गुड़ भेंट किया।   कृषि मंत्री चौबे ने तमिलनाडु के किसान प्रतिनिधिमंडल में शामिल सभी प्रतिनिधियों को शॉल एवं श्रीफल भेंटकर उनके छत्तीसगढ़ आने पर प्रसन्नता जताई। कृषि मंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ राज्य ने बीते तीन वर्षों में खेती-किसानी को समृद्ध और किसानों को खुशहाल बनाने के लिए कई नवाचार किए हैं। यहां कई अभिनव योजनाएं शुरू की गई हैं। किसानों को फसल उत्पादकता एवं फसल विविधीकरण को अपनाने के लिए उन्हें मदद पहुंचाने के मामले छत्तीसगढ़ देश का अग्रणी राज्य है। यहां के किसानों को धान और गन्ना की सर्वाधिक कीमत मिल रही है। कृषि मंत्री ने इस मौके पर छत्तीसगढ़ सरकार की राजीव गांधी किसान न्याय योजना, गोधन न्याय योजना, राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के बारे में विस्तार से जानकारी दी और कहा कि इन योजनाओं का उद्देश्य ग्रामीणों और किसानों की आर्थिक स्थिति को बेहतर बनाना है। तमिलनाडु में भू-जल स्तर की चिंताजनक स्थिति को देखते हुए कृषि मंत्री श्री चौबे ने प्रतिनिधिमंडल को छत्तीसगढ़ सरकार के नरवा विकास कार्यक्रम को वहां अपनाए जाने का सुझाव दिया। इस अवसर पर कृषि विभाग के सचिव एवं गोधन न्याय मिशन के प्रबंध संचालक डॉ. एस. भारतीदासन ने तमिलनाडु राज्य में कृषि की स्थिति और छत्तीसगढ़ में किसानों की बेहतरी के लिए किए जा रहे प्रयासों के बारे में जानकारी दी। किसान प्रतिनिधिमंडल के प्रमुख सुन्दर विमल नाथन ने बताया कि उनके प्रतिनिधिमंडल में तमिलनाडु के अलग-अलग जिलों के किसान प्रतिनिधि शामिल हैं, जो मुख्यतः धान और गन्ना की प्रमुखता से खेती करते हैं। उन्होंने बताया कि छत्तीसगढ़ में किसानों को प्रति टन गन्ना की जो कीमत मिल रही है, वह तमिलनाडु की तुलना में लगभग छह हजार रुपये अधिक है। नाथन ने बताया कि छत्तीसगढ़ में किसानों को मिल रहे अधिक लाभ को जानने और समझने के उद्देश्य से उनका दल छत्तीसगढ़ के दौरे पर आया है। नाथन ने कृषि मंत्री से छत्तीसगढ़ में नेचुरल फॉर्मिंग का राष्ट्रीय कॉन्क्लेव आयोजित किए जाने का आग्रह किया। उन्होंने बताया कि तमिलनाडु राज्य में भू-जल के अनियंत्रित दोहन तथा औद्योगीकरण के चलते भू-जल स्तर 300 फीट से गिरकर एक हजार फीट नीचे चला गया है, यह स्थिति चिंताजनक है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 April 2022

raipur,Found dead body ,elephant ,slammed five people

रायपुर।धमतरी जिले में 9 दिन पूर्व सिहावा क्षेत्र में 2 दिन के भीतर पांच लोगों को पटक कर और कुचल कर मारने वाले मादा हाथी का शव गरियाबंद जिले में सिकासेर बांध के पास झाड़ियों में मंगलवार को मिला है । ग्रामीणों से जानकारी मिलने के बाद देर तक वन विभाग के अधिकारी वहां पहुंचे। गरियाबंद जिले में हाथी की मौत की यह तीसरी घटना है। डी एफ ओ मयंक अग्रवाल ने बताया एक मादा हाथी की मौत सिकासेर‎ के जंगल में हो गई है। हाथी की उम्र‎ करीब 30 साल थी। उन्होंने बताया कि मादा हाथी के मुंह में छाला हो गया था। ऐसे में प्रथम दृष्टया आशंका है कि खाना नहीं खा पाने के कारण भूख से उसकी मौत हुई है। शव का पोस्टमार्टम बुधवार को कराया जाएगा। सिकासेर बांध के पास झाड़ियों में बीमार हाथी के बैठे होने सूचना वन विभाग की टीम को मिली थी जिसके बाद डॉक्टरों की टीक वहां पहुंची, वहीं जांच में मौत की पुष्टि हुई। प्रारंभिक जांच में हाथी को इंफेक्शन तथा छाले होने की बात सामने आई है। इसके पूर्व धवलपुर वन परिक्षेत्र में करंट लगने से एक हाथी की मौत हुई थी वही आमा मोरा की पहाड़ी में एक हाथी के सावक को बाघ द्वारा मारने की बात भी सामने आई थी जिले में हाथी की मौत की यह तीसरी घटना है।ओडिशा के सिकासेर से आया 30 हाथियों का दल करीब 5 महीने से विचरण कर रहा है। 2 दिन पहले इस दल से 2 सदस्य एक हाथी व एक हथिनी अलग हो गए।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 April 2022

raipur,  Godhan Nyay Yojana , National Alets Innovation Award

रायपुर। छत्तीसगढ़ शासन की महत्वाकांक्षी गोधन न्याय योजना को राष्ट्रीय स्तर पर एलेट्स एनोवेशन अवार्ड से सम्मानित किया गया है। एलेट्स आत्म निर्भर भारत समिट में छत्तीसगढ़ राज्य को कृषि में इनोवेशन केटेगरी में यह अवार्ड प्रदान किया गया। नई दिल्ली में आयोजित दो दिवसीय एलेट्स आत्म निर्भर भारत समिट में 19 अप्रैल को एलेट्स टेक्नोमीडिया प्राईवेट लिमिटेड के संस्थापक, सीईओ एवं एडीटर इन चीफ डॉ. रवि गुप्ता एवं टेक्सटाइल मंत्रालय भारत सरकार के सचिव यू.पी. सिंह ने संयुक्त रूप से यह अवार्ड प्रदान किया गया। सचिव एवं राज्य नोडल अधिकारी छत्तीसगढ़ की ओर से यह अवार्ड संयुक्त संचालक आर.एल. खरे ने प्राप्त किया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एवं कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे ने इस शानदार उपलब्धि के लिए प्रदेशवासियों, कृषि विकास, कृषक कल्याण और जैव प्रौद्योगिकी विभाग, गोधन न्याय मिशन के अधिकारियों-कर्मचारियों, गौठान समितियों एवं स्व-सहायता समूहों की महिलाओं को बधाई और शुभकामनाएं दी हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 April 2022

raipur, Naxalites set fire , 10 vehicles ,engaged in sand mining

रायपुर /बीजापुर। नक्सलियों ने सोमवार देर रात नैमेड थाना क्षेत्र मिनगाचल नदी में रेत खनन में लगे 10 वाहनों में आग लगा दी है ।पुलिस अधीक्षक पंकज शुक्ला ने मामले की पुष्टि की है। नारायणपुर में भी ओरछा थाने क्षेत्र में नक्सलियों ने ओरछा मार्ग पर रायनार के पास सड़क खोद दी। सड़क से डामर उखाड़कर नक्सलियों ने सड़क पर ही मेड़ बना दिया। नक्सलियों ने बस्तर फाइटर भर्ती का विरोध किया है। नेमेड़ थाना प्रभारी संजीव बैरागी ने बताया कि सोमवार रात करीब 10 से 11 बजे के बीच थाने से लगभग साढ़े तीन किमी की दूरी पर एक निजी रेत खदान में रेत निकालने का कार्य चल रहा था, उसी समय नक्सलियों ने 7 डंफर और 2 जेसीबी और एक पोकलेन वाहन में आग लगाकर भाग गए। सभी वाहन जगदलपुर-बीजापुर नेशनल हाईवे 63 के किनारे मिंगाचल के रेत खदान में लगे हुए थे। कुछ देर बाद इस वारदात की जानकारी बीजापुर जिले के फायर ब्रिगेड की टीम को मिली। मौके पर दो फायर ब्रिगेड पहुंची। जिन्होंने रात में ही आग पर काबू पा लिया था। 24 घंटे के भीतर नक्सलियों ने तीसरी बड़ी वारदात को अंजाम दिया है। इससे पहले रविवार की रात को कुटरू थाना इलाके में पुलिस कैंप में उन्होंने हमला किया था जिसमें 4 जवान घायल हुए थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 April 2022

raipur, Notification published , Chhattisgarh Gazette

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की घोषणा पर त्वरित अमल करते हुए ‘‘साल्हेवारा’’ तहसील के गठन के लिए छत्तीसगढ़ राजपत्र में अधिूसचना सोमवार की देर शाम को प्रकाशित कर दी गई है। अधिसूचना के अनुसार छत्तीसगढ़ भू-राजस्व संहिता में प्रदत्त शक्तियों को प्रयोग में लाते हुए राज्य सरकार द्वारा तहसील की सीमाओं को परिवर्तित करना, नवीन तहसील सृजित करना और उनकी सीमाओं को परिभाषित करना प्रस्तावित की गई है। इसके तहत परिवर्तन के स्वरूप अंतर्गत राजस्व निरीक्षक मंडल साल्हेवारा के पटवारी हल्का क्रमांक 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7 एवं 8 के कुल 48 ग्राम, राजस्व निरीक्षक मंडल बकरकट्टा के पटवारी हल्का क्रमांक 18 एवं 19 के कुल 30 ग्राम, अतः कुल 10 पटवारी हल्के के 78 ग्राम नवीन तहसील ‘‘साल्हेवारा’’ में शामिल होंगे। नवीन तहसील की सीमाएं अंतर्गत उत्तर में तहसील बोडला जिला कबीरधाम, दक्षिण में तहसील छुईखदान जिला राजनांदगांव, पूर्व में तहसील बोडला जिला कबीरधाम एवं तहसील छुईखदान जिला राजनांदगांव तथा पश्चिम में तहसील बिरसा (मध्यप्रदेश) होगी।   उल्लेखनीय है कि राजपत्र में इस सूचना के प्रकाशन के दिनांक से 60 दिवस की समाप्ति पर, प्रस्ताव पर विचार किया जाएगा। इस संबंध में कोई भी आपत्तियां या सुझाव, लिखित में सचिव छत्तीसगढ़ शासन राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग, मंत्रालय, महानदी भवन, कैपिटल कॉम्पलेक्स, नवा रायपुर अटल नगर जिला रायपुर को उक्त अवधि के समाप्ति के पूर्व भेजे जा सकेंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 April 2022

raipur,  Chief Minister , launch ,National Tribal Literature Festival

रायपुर।मुख्यमंत्री भूपेश बघेल19 अप्रैल को राष्ट्रीय जनजातीय साहित्य महोत्सव का शुभारंभ करेंगे। राजधानी के पंडित दीनदयाल उपाध्याय आडिटोटोरियम में महोत्सव का शुभारंभ प्रातः10 बजे से होगा। यह आयोजन आदिम जाति अनुसंधान एवं प्रशिक्षण संस्थान छत्तीसगढ़ और भारत सरकार जनजातीय कार्य मंत्रालय के सहयोग से किया जा रहा है। आदिम जाति तथा अनुसूचित जाति विकास मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम शुभारंभ समारोह की अध्यक्षता करेंगे। कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में वाणिज्यिक कर मंत्री कवासी लखमा, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री अमरजीत भगत, महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती अनिला भेंड़िया और संसदीय सचिव द्वारिकाधीश यादव उपस्थित रहेंगे। इस अवसर पर पद्श्री सम्मानित साहित्यकार, कलाकारों का सम्मान किया जाएगा। सांस्कृतिक कार्यक्रम में बस्तर बैण्ड का प्रदर्शन और जनजातीय नृत्य की प्रस्तुति दी जाएगी। उद्घाटन सत्र के बाद साहित्य परिचर्चा के प्रथम सत्र में भारत में जनजातीय भाषा एवं साहित्य का विकास-वर्तमान एवं भविष्य, द्वितीय सत्र में भारत में जनजातीय विकास-मुद्दे, चुनौतियां एवं भविष्य विषय पर साहित्य परिचर्चा होगी। शोधपत्र वाचन के प्रथम सत्र में जनजातीय साहित्यः भाषा, विज्ञान एवं अनुवाद, जनजातीय साहित्य में जनजातीय अस्मिता एवं जनजातीय साहित्य में जनजातीय जीवन का चित्रण, द्वितीय सत्र में जनजातीय समाजों में वाचिक परंपरा की प्रासंगिकता एवं जनजातीय साहित्य में अनेकता एवं चुनौतियां विषय पर शोधपत्र का वाचन होगा। कला एवं चित्रकला प्रतियोगिता अंतर्गत कैनवास पेंटिंग आयु वर्ग 18-30 और 30 से ऊपर, ड्राइंग सीट पर पेंटिंग आयु वर्ग 12-18 के लिए आयोजित की गई है। हस्त कला प्रदर्शन में बांस कला, छिंद कला, गोदना कला, रजवार कला, शीशल कला, माटी कला और काष्ट कला का प्रदर्शन किया जाएगा। संध्याकालीन सांस्कृतिक कार्यक्रम के अंतर्गत शाम 6 बजे से शहीद वीर नारायण सिंह पर नाट्य प्रस्तुति और शाम 7 बजे से जनजातीय नृत्य की प्रस्तुति होगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 April 2022

raipur,  Governor released , annual booklet of NIC

रायपुर।राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके ने राजभवन में सोमवार को एन.आई.सी छत्तीसगढ़ की वार्षिक पुस्तिका ‘‘डिजिटल पाथवे‘‘ का विमोचन किया। कार्यक्रम के अवसर पर एन.आई.सी की महानिदेशक डॉ. नीता वर्मा ने एन.आई.सी द्वारा राज्य स्तर एवं जिला स्तर पर प्रदान किए जा रहे डिजिटल सेवा के संबंध में जानकारी प्रदान की। राज्यपाल सुश्री उइके ने एन.आई.सी की महानिदेशक डॉ. नीता वर्मा एवं एन.आई.सी. छत्तीसगढ़ के समस्त कर्मचारियों को वार्षिक पुस्तिका के विमोचन पर बधाई एवं शुभकामनाएं दीं। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में डिजिटल पारिस्थितिकी तंत्र के निर्माण में एन.आई.सी की महत्वपूर्ण भूमिका है। सुश्री उइके ने कहा कि एन.आई.सी. द्वारा उपलब्ध कराई गई डिजिटल सेवा कोविड-19 के दौर में काफी मददगार रही। डिजिटल सेवा के बदौलत ही तमाम कार्यों का आनलाईन संपादन किया जा सका। स्कूल एवं कॉलेज की पढ़ाई निरंतर जारी रही। उन्होंने कहा कि एन.आई.सी. द्वारा सरकारी कार्यों में पारदर्शिता लाने के लिए एवं नागरिक सेवाओं का समय पर संपादन करने के लिए विकसित किए गए तकनीकों का क्रियान्वयन होना चाहिए। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि एन.आई.सी. द्वारा विकसित किए गए ब्लॉकचेन सिस्टम विश्वविद्यालयों में लागू किए जायेंगे। इससे विद्यार्थियों के शैक्षणिक प्रमाणपत्र ब्लॉकचेन में सुरक्षित रहेंगे। पब्लिक एक्सेस होने से उसकी विश्वसनीयता की भी जांच की जा सकती है। इससे विद्यार्थियों को भी प्रमाणपत्रों के रखने, लाने ले जाने के प्रक्रिया से मुक्ति मिलेगी। उन्होंने समस्त विश्वविद्यालयों को एन.आई.सी. द्वारा विकसित किए गए स्वास प्लेटफार्म के तर्ज पर एक ही प्लेटफार्म में लाने की भी बात कही। सुश्री उइके ने एन.आई.सी. की महानिदेशक से राजभवन सचिवालय को भी पूरी तरह से ई-आफिस में तब्दील कर पेपरलेस करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि इससे खर्चे में भी कमी आयेगी और समय की भी बचत होगी। इसके अलावा उन्होंने इंटरनेट की स्पीड भी तेज होने और राज्य के सुदूर क्षेत्रों में ई-आफिस को स्थानीय भाषा में होने की भी अनिवार्यता बताई। इस अवसर पर एनआईसी के उप महानिदेशक श्री संजय कपूर, उप महानिदेशक एवं राज्य सूचना विज्ञान अधिकारी छत्तीसगढ़ डॉ. अशोक कुमार होता, विधिक सलाहकार श्री आर.के. अग्रवाल, उप सचिव श्री दीपक कुमार अग्रवाल उपस्थित थे। साथ ही एनआईसी छत्तीसगढ़ के सभी जिला सूचना विज्ञान अधिकारी वर्चुअल रूप से उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 April 2022

raipur, MP Soni ,not try , show favor ,Congress

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने सोमवार को पत्रकारवार्ता को संबोधित करते हुये कहा कि सांसद सुनील सोनी के द्वारा पत्रकार वार्ता में उठाये गये सवाल सतही और छत्तीसगढ़ के हितों के खिलाफ केंद्र की दुर्भावना को छुपाने की कवायद है। सुनील सोनी पिछले वर्ष और इस वर्ष केंद्र के द्वारा राज्य को जारी किये जाने वाली राशि का ब्यौरा प्रस्तुत कर रहे हैं। संघीय ढांचे में केंद्र सरकार राज्य सरकारों को उनकी आबादी और क्षेत्रफल के अनुपात में राशि जारी करता है। मोदी सरकार कोई नया काम नहीं कर रही है यह उसका दायित्व है और यह छत्तीसगढ़ को दिया जाने वाला कोई खैरात नहीं है। सांसद सोनी राज्य की जनता पर अहसान जताने की चेष्टा न करें। मोदी सरकार ने जीएसटी लागू करके राज्यों को मिलने वाले कर संग्रहण को अपने अधीन कर लिया है। राज्य से एकत्रित होने वाले टैक्स का हिस्सा केंद्र राज्यों को वापस करता है। सांसद सोनी मोदी सरकार की चाटुकारिता करने के बजाय केंद्र सरकार से छत्तीसगढ़ के हिस्से की रोकी गयी रकम के भुगतान की पैरवी क्यों नहीं करते? सुनील सोनी सहित भाजपा के सांसद अपने दायित्वों का निर्वहन नहीं कर रहे है। मुख्यमंत्री राज्य के लंबित राशि की मांग कर रहे हैं तो सोनी इस संबंध में सीधा जवाब देने के बजाय राज्य को केंद्र से कितनी राशि मिल रही है इसका ब्यौरा दे रहे हैं। यदि केंद्र को राज्य को कुछ भी बकाया राशि नहीं देनी है तो मुख्यमंत्री के द्वारा लिये गये आधा दर्जन से अधिक पत्रों के जवाब में प्रधानमंत्री कार्यालय, वित्त मंत्री नकार क्यों नहीं रहे कि राज्य की कोई लेनदारी बकाया नहीं है?   प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी महामंत्री संगठन चंद्रशेखर शुक्ला ने कहा कि राज्यों के हितों की बात होती है तब भाजपा सांसद कुछ क्यों नहीं बोलते? जब बोलेंगे तो अपनी राजनीति बचाने बोलेंगे। पर्याप्त मात्रा में मांग के अनुसार वैक्सीन नहीं दिया गया। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना को नहीं शामिल किया तब सोनी सहित 9 सांसद चुप थे। राज्य की 10 महत्वपूर्ण ट्रेनों को बंद किया तब सोनी चुप थे। रेलवे में वरिष्ठ नागरिकों को मिलने वाली छूट बंद कर दी गयी तब सोनी चुप थे। सोनी दलीय प्रतिबद्धता और मोदी की चाटुकारिता में राज्य के जनता के खिलाफ खड़े है। पत्रकार वार्ता में प्रवक्ता सुरेन्द्र वर्मा, मणी प्रकाश वैष्णव, विकास विजय बजाज, ऋषभ चंद्राकर उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 April 2022

raipur,Naxalites attack , security force camp

रायपुर/बीजापुर। छत्तीसगढ़ में बीजापुर जिले के कुटरू थाना क्षेत्र के जैगुर कैम्प में नक्सलियों ने रात के अंधेरे में एकाएक हमला करते हुए फायरिंग की और बैरल ग्रेनेड लॉन्चर दागे। इस हमले में 4 जवान बुरी तरह से घायल हुए है, जिनमें गंभीर रूप से घायल 2 जवानों को तड़के एयर लिफ्ट कर रायपुर रेफर किया गया है। वहीं, दो अन्य घायल जवानों का बीजापुर अस्पताल में इलाज चल रहा है। बस्तर आईजी सुंदरराज पी ने हमले की पुष्टि करते हुए बताया है कि दो घायल जवानों को रायपुर के रामकृष्ण अस्पताल में ले जाया गया है। घटनाक्रम नक्सल प्रभावित बीजापुर जिला के कुटरू थाना क्षेत्र का है। सुरक्षा बल कैम्प में जवान आराम कर रहे थे, इसी दौरान अचानक नक्सलियों ने कैम्प में हमला बोलते हुए ताबड़तोड़ फायरिंग खोल दी। इस दौरान नक्सलियों ने कैम्प में जवानों पर यूबीजीएल भी दागे। ब्लास्ट की चपेट में आकर हेड कांस्टेबल जितेंद्र मंडावी और सुकेश्वर ध्रुव को गंभीर चोट आई है। इस हमले में बुरी तरह से घायल सुकेश्वर ध्रुव का दाहिना पैर टूटने के साथ ही दाहिना हाथ बुरी तरह से जख्मी हुआ है और हाथ की एक अंगुली कट गयी है। वहीं, जितेंद्र मंडावी को भी पैर में गंभीर चोट है, जिन्हें सुबह 4 बजकर 52 मिनट पर एयर लिफ्ट कर रायपुर रेफर किया गया है। इस हमले में हेड कांस्टेबल अजीत और कांस्टेबल ओमप्रकाश दीवान भी घायल हुए है। जिनका बीजापुर जिला अस्पताल में भर्ती कर उपचार किया जा रहा है। घायल जवान अजीत वटटी ने बताया कि रात करीब 10 बजे के लगभग नक्सलियों ने अचानक फायरिंग शुरू कर दी। जवान मोर्चा संभालते तब तक नक्सलियों ने करीब 10 यूबीजीएल कैम्प पर दाग दिये। 2 घंटे तक चली मुठभेड़ में जवाबी कार्रवाई कर मुहतोड़ जवाब दिया गया। घायलों में तीन जवान जिला बल और एक जवान कांस्टेबल ओमप्रकाश दीवान सीएएफ का जवान है, जो कि इस हमले में घायल हुए है। डॉक्टरों ने सभी चारों घायल जवानों की हालत खतरे से बाहर बताई है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 April 2022

raipur, Chief Minister Baghel, announced

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शनिवार की देर शाम अपने निवास कार्यालय में खैरागढ़-छुईखदान-गंडई को जिला बनाने की महत्वपूर्ण घोषणा की। इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने साल्हेवारा को पूर्ण तहसील और जालबांधा को उप तहसील का दर्जा देने की भी घोषणा की। मुख्यमंत्री निवास कार्यालय में खैरागढ़ विधानसभा की जीत पर आभार प्रदर्शन के लिए नवनिर्वाचित विधायक यशोदा वर्मा सहित बड़ी संख्या में लोग पहुंचे थे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने वर्मा को खैरागढ़ विधानसभा उप निर्वाचन में शानदार विजयश्री हासिल करने के लिए उन्हें बधाई एवं शुभकामनाएं दी। उन्होंने इस अवसर पर खैरागढ़ की जनता को बधाई और शुभकामना देते हुए कहा कि जनादेश ने छत्तीसगढ़ सरकार की पिछले साढ़े तीन वर्षों में हुए कार्यों पर अपनी मुहर लगा दी है। उन्होंने कहा कि पिछले चुनाव के मुकाबले इस चुनाव में 56 हजार से अधिक मत मिले है। यह सब सरकार के काम-काज और जनता के विश्वास से संभव हुआ है। मुख्यमंत्री ने कहा कि सांसद राहुल गांधी ने विधानसभा चुनाव में जीत के बाद कहा था कि 10 दिनों के भीतर किसानों का कर्ज माफी की जानी है, लेकिन हमने उसे 2 घण्टे के भीतर ही पूरा किया। खैरागढ़ को हमने 24 घण्टे के भीतर जिला बनाने का वायदा किया था। इसे हमने यशोदा वर्मा के विधायक निर्वाचित होने के तीन घण्टे के भीतर ही पूरा कर दिया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि खैरागढ़ उप चुनाव में जीत छत्तीसगढ़ सरकार की जनकल्याणकारी नीतियों और कार्यक्रमों की जीत है। जनता ने शानदार जीत दिलाकर सरकार की नीतियों और कार्यक्रमों के प्रति एक बार फिर से अपना विश्वास जताया है। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर खैरागढ़ के मतदाताओं के प्रति भी आभार जताते हुए उम्मीद जतायी कि विधायक वर्मा खैरागढ़ क्षेत्र के विकास एवं जनता के लिए सजग जनप्रतिनिधि का दायित्व निभायेंगी। खैरागढ़ विधानसभा उप निर्वाचन में मिली जीत पर मुख्यमंत्री ने कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे, नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया, विधायक मोहन मरकाम, नवनिर्वाचित विधायक यशोदा वर्मा, छत्तीसगढ़ युवा आयोग के अध्यक्ष जितेन्द्र मुदलियार, छत्तीसगढ़ खनिज निगम के अध्यक्ष गिरीश देवांगन का मुंह मीठा कर उन्हें बधाई दी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 April 2022

raipur, New budget, decide the direction , new Chhattisgarh, Baghel

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रविवार को रेडियो पर प्रसारित अपनी मासिक रेडियो वार्ता लोकवाणी की 28वीं कड़ी में प्रदेशवासियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि हमारा नया बजट, नए छत्तीसगढ़ के विकास की दिशा तय करने वाला है। प्रदेश की खुशहाली में जनभागीदारी की सर्वाधिक भूमिका रहे, प्रदेश की समृद्धि में प्रत्येक छत्तीसगढ़वासी की भागीदारी रहे, यह हम सुनिश्चित करेंगे। हमारी सरकार जनहित और राज्य के विकास के लिए चट्टान की तरह मजबूती से काम कर रही है। कोरोना संकट, जीएसटी और केन्द्रीय करों के हिस्से में कमी के बावजूद राजस्व आधिक्य का बजट प्रस्तुत किया गया है। राज्य का ऋण भार और वित्तीय घाटा लगातार कम हो रहा है तथा पूंजीगत व्यय लगातार बढ़ रहा है। आज प्रसारित लोकवाणी -‘नवा छत्तीसगढ़, नवा बजट’ विषय पर केन्द्रित रही। छत्तीसगढ़ राज्य गठन के बाद अब तक का सबसे बड़ा बजट राज्य सरकार द्वारा प्रस्तुत किया गया है। राज्य के बजट का आकार एक लाख 12 हजार 603 करोड़ 40 लाख रुपये है।   मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों को विभिन्न पर्वों की दी बधाई   मुख्यमंत्री भपेश बघेल ने लोकवाणी की शुरुआत छत्तीसगढ़ी भाषा में की। उन्होंनें कहा जम्मो सियान-जवान, दाई-दीदी, नोनी-बाबू मन ल जय जोहार। जय सियाराम। आप सब ल रामनवमी, डॉ. अम्बेडकर जयंती, महावीर जयंती, बैसाखी, हाटकेश्वर जयंती, श्रीमद् वल्लभाचार्य जयंती, ईद-उल-फितर के गाड़ा-गाड़ा बधाई। लोकवाणी में रायपुर जिले के मलदा गांव के उमाकांत वर्मा, छत्तीसगढ़ को एक लाख करोड़ रुपये से अधिक का बजट प्रस्तुत करने पर मुख्यमंत्री को बधाई दी। रायपुर के राजेश वासवानी ने राजस्व आधिक्य का बजट पेश करने और कोरोना की चुनौती के बावजूद बजट में कोई भी नया कर व्यापारियों के ऊपर नहीं लगाने के लिए बधाई दी। बजट में सामाजिक क्षेत्र के लिए 37 प्रतिशत का प्रावधान लोकवाणी में कबीरधाम जिले के रणवीरपुर की आम्रपाली सहारे के बजट की प्राथमिकता के संबंध में पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारे प्रदेश में अनुसूचित जनजाति तथा अनुसूचित जाति की आबादी लगभग 45 प्रतिशत है। हमारे बजट के कुल प्रावधान में 33 प्रतिशत राशि अनुसूचित जनजाति के लिए और 12 प्रतिशत राशि अनुसूचित जाति के लिए है। सामाजिक और आर्थिक क्षेत्र में देखें तो हमने 40 प्रतिशत प्रावधान आर्थिक क्षेत्र के लिए रखा है तो इसके करीब ही 37 प्रतिशत का प्रावधान सामाजिक क्षेत्र के लिए भी किया है। अनेक चुनौतियों के बावजूद किया गया स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार   कोरिया जिले के चिरमिरी के राहुल भाई पटेल पूंजीगत व्यय के संबंध में पूछा। मुख्यमंत्री ने उनके सवाल का जवाब देते हुए कहा कि वर्ष 2021-22 का पूंजीगत व्यय 14 हजार 191 करोड़ तथा वर्ष 2022-23 के बजट में 15 हजार 241 करोड़ रखा गया है। इस प्रकार पूंजीगत व्यय में लगातार वृद्धि हो रही है। मुख्यमंत्री बघेल ने कोरबा के डॉ. सूरज कुमार गोहिल द्वारा वित्तीय घाटे को लेकर पूछे गए प्रश्न के जवाब में कहा कि वर्ष 2021-22 में सकल वित्तीय घाटा 15 हजार 257 करोड़ था। वर्ष 2022-23 के लिए इसे कम करते हुए 14 हजार 600 करोड़ अनुमानित रखा गया है। इसमें तीन हजार 400 करोड़ 50 वर्षीय ब्याज मुक्त ऋण की राशि शामिल है, जिसे कम करने पर यह घटकर 11 हजार 200 करोड़ होगा, जो वर्ष 2022-23 के लिए राज्य की जीएसडीपी का केवल 2.55 प्रतिशत होगा। यह एफआरबीएम एक्ट के अंतर्गत निर्धारित 3 प्रतिशत की सीमा से काफी कम है। राज्य सरकार किसी भी हालत में अपने वायदे से पीछे हटने वाली नहीं मुख्यमंत्री भूपेश ने धमतरी जिले के ग्राम-जी जामगांव, शुभम दास बघेल ने जानना चाहा कि ‘राजीव गांधी किसान न्याय योजना’ नए वित्तीय वर्ष में भी चालू रहेगी या नहीं? मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि ‘राजीव गांधी किसान न्याय योजना’ के लिए हमने इस बार भी 6 हजार करोड़ रुपये का प्रावधान रखा है। इसका मतलब यह है कि योजना चालू रहेगी। विगत दो वर्षों में इस योजना के माध्यम से 11 हजार 180 करोड़ रुपये की राशि दी गई है। उन्होंने कहा कि आप विश्वास रखिए कि हम किसी भी हालत में अपने वायदे से पीछे हटने वाले नहीं हैं और जो काम शुरू किए हैं, उन्हें आगे भी जारी रखेगें ताकि धान के किसानों को विभिन्न योजनाओं के सहयोग से 2500 रुपये प्रति क्विंटल से कम दाम किसी भी सूरत में न मिले।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 April 2022

raipur,lolkvani heard ,enthusiastically, old township

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मासिक रेडियो वार्ता लोकवाणी के प्रसारण में रविवार को इस बार ‘‘नवा छत्तीसगढ़ नवा बजट’’ को पुरानी बस्ती रायपुर के लोगों ने उत्साह के साथ सुना। लोकवाणी की 28वीं कड़ी में मुख्यमंत्री बघेल ने बातचीत में बताया कि हमारा बजट नए छत्तीसगढ़ के विकास की दिशा तय करने वाला है। छत्तीसगढ़ राज्य गठन के बाद अब तक का सबसे बड़ा बजट राज्य सरकार द्वारा प्रस्तुत किया गया है। मुख्यमंत्री ने लोकवाणी में श्रोताओं द्वारा पूछी गयी जिज्ञासाओं का जवाब देते हुए छत्तीसगढ़ की मजबूत आर्थिक स्थिति की विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति की जनसंख्या के अनुपात में बजट प्रावधान किया गया है, वहीं सामाजिक और आर्थिक क्षेत्रों का भी बराबर ध्यान रखा गया है। कृषि क्षेत्र को लेकर हमारी प्राथमिकता बहुत ही स्पष्ट है और इसके लिए बजट में पर्याप्त राशि की व्यवस्था की गई है। लोकवाणी सुनकर कई श्रोताओं ने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा पुरानी पेंशन बहाली से अधिकारी कर्मचारियों में एक नई ऊर्जा का संचार हुआ है। इसी प्रकार पीएससी और व्यापम की परीक्षा शुल्क माफी, जनप्रतिनिधियों का मानदेय और विकास निधि बढ़ाने की घोषणा पर मुख्यमंत्री को धन्यवाद दिया। लोकवाणी श्रोता सचिन शर्मा, प्रीति मिश्रा, सरिता दाहव ने छत्तीसगढ़ सरकार के द्वारा इस वित्तीय वर्ष में बजट प्रावधानों को सभी वर्ग के लोगों के लिए हितैषी बताया। राजा महार, शैल यंक, मार्लक प्रजापति, अफताब, किशोर पंसारी, सत्यम शुक्ला सहित अन्य लोगों ने भी रेडियो मासिक वार्ता लोकवाणी को उत्साह के साथ सुना।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 April 2022

raipur, winning semi-finals,  final too, Amarjeet

रायपुर। खैरागढ़ उपचुनाव को लेकर मतगणना की प्रक्रिया जारी है। कांग्रेस उम्मीदवार के जीत के दावे को लेकर मंत्री अमरजीत भगत ने कहा कि छत्तीसगढ़ की जनता को भूपेश सरकार पर भरोसा है और इसी का परिणाम है कि कांग्रेस आगे दिख रही है। सरकार के कामकाज से आम जनता खुश है। मंत्री अमरजीत भगत ने चर्चा में केंद्रीय मंत्रियों के प्रचार-प्रसार करने को लेकर कहा कि वे मेहमान हैं, “मेरे अंगने में तुम्हारा क्या काम है” वे यहां आ आए खाए पिए और चले गए। उनका यहां पर कोई काम नहीं है। यहां मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और उनकी सरकार का काम है। कौन क्या कर रहा है इस पर जनता की नजर है। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ में भाजपा के लोगों ने 15 सालों में आसमान में सड़क बना दिए, लोगों को यह बात हजम नहीं हुई। हमारे काम का जुड़ाव सीधे लोगों से हैं। लोग आर्थिक रूप से मजबूत हो रहे हैं, उनकी स्थिति सुधर रही है। छत्तीसगढ़ मॉडल की चर्चा पूरे देश में हो रही है। सेमीफाइनल में हम जीत रहे हैं और फाइनल में भी हमें ही जीत मिलेगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 April 2022

raipur, Union minister ,coming to politics ,search land, Bhupesh

रायपुर। छत्तीसगढ़ में कुछ दिनों तक केंद्रीय मंत्री आकांक्षी जिलों के भ्रमण पर हैं। केंद्रीय मंत्री जिले के अधिकारियाें व भाजपा नेताओं से चर्चा कर वहां की रिपोर्ट तैयार करेंगे। मंत्रियों के आने का सिलसिला गुरुवार से शुरू हो गया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शुक्रवार को केंद्रीय मंत्रियों के दौरों को लेकर कहा कि केंद्रीय मंत्री अचानक आ रहे हैं, तो कोई योजना बनाकर आ रहे होंगे। उन्होंने कहा कि केंद्रीय मंत्री राजनीति करने और अपनी जमीन तलाश करने आ रहे हैं। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि भारत सरकार ने कोई गाइडलाइन बनाई है, वो पैरामीटर को देखने आए हैं। बहुत सारे पैरामीटर में हम देश के दूसरे आकांक्षी जिलों से आगे हैं, लेकिन इन जिलों को भारत सरकार कोई अतिरिक्त पैसा नहीं देती है। उन्होंने कहा कि बस्तर के नक्सल प्रभावित सात जिले आकांक्षी जिलों में भी शामिल हैं, वहां 2021 तक हर साल 50 करोड़ मिलता है। उसे भी बंद कर दिया गया है।   एक प्रश्न के जवाब में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि रमन सिंह जितने साल मुख्यमंत्री और वित्त मंत्री रहे हैं, उस दौरान केंद्र का अंश अधिक और राज्य का काम होता था। पहली बार है, जब राज्य और केंद्र का अंश बराबर है। इस बजट के आंकड़े देख लें। उन्होंने कहा कि रमन सिंह के समय से यहां सीआरपीएफ के जवान पदस्थ है। केंद्र ने इसके खर्च की 11 हजार करोड़ की राशि राज्य सरकार से काट ली है। बुधवार को केंद्रीय गृह मंत्री से इस संबंध में भी चर्चा हुई थी। कोयल रायल्टी का पैसा नहीं मिला है। 28 हजार करोड़ रुपये भारत सरकार से लेना है। उल्लेखनीय है कि आकांक्षी जिलों को लेकर केंद्र सरकार को कई तरह से फीडबैक मिल रहे थे। इसके बाद उन्हें देशभर के आकांक्षी जिलों के दौरे पर भेजा जा रहा है। इसी के तहत केन्द्रीय पेट्रोलियम मंत्री हरदीप सिंह पुरी गुरुवार को महासमुंद के दौरे पर रहे। इसके बाद विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया 18 अप्रैल को राजनांदगांव आ रहे हैं। उनके अलावा संसदीय कार्य एवं वित्त राज्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल बस्तर, नित्यानंद राय बीजापुर, देवसिंह चौहान दंतेवाड़ा, भानुप्रताप सिंह कांकेर, अश्वनी चौबे कोरबा, महेन्द्र नाथ पाण्डेय नारायणपुर और रेणुका सिंह सुकमा का दौरा करेंगी। ये मंत्री केन्द्रीय योजनाओं की मैदानी हकीकत और केन्द्र से मिली राशि के उपयोग पर कलेक्टरों से फीडबैक लेंगे। साथ ही स्थानीय भाजपा कार्यकर्ताओं से चर्चा भी करेंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  15 April 2022

raipur, Child rescue campaign, 12 children

रायपुर। राजधानी रायपुर में पिछले तीन दिनों में 12 बच्चों का रेस्क्यू कर बाल गृह में दाखिल कराया गया है। यह बच्चे तेलीबांधा और भगतसिंह चौक पर सघन अभियान चलाकर रेस्क्यू किए गए हैं। ज़िला प्रशासन द्वारा भीख मांगने वाले, दुकानों में काम करने वाले, नशे की लत में फँसें और कचरा बीनने वाले बच्चों के पुनर्वास के लिए विशेष अभियान चलाया जा रहा है। महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा यह अभियान 17 अप्रैल तक चलेगा। इस अभियान में रायपुर ज़िले के महिला एवं बाल विकास विभाग, बाल संरक्षण गृह, पुलिस, समाज कल्याण विभाग के अधिकारियों के साथ विभिन्न सामाजिक संस्थाओ के प्रतिनिधि लगे है। यह अभियान 17 अप्रैल 2022 तक राजधानी के शास्त्री बाजार, गोल बाज़ार, सदर बाज़ार, रेलवे स्टेशन, फाफाडीह चौक, देवेन्द्र नगर, पचपेड़ी नाका, संतोषी नगर, भाठागांव चौक, तेलीबांधा, भगत सिंह चौक, भारत माता चौक पर रेस्क्यू अभियान चलाया जायेगा। इस अभियान के तहत भिक्षावृत्ति, बाल श्रम, नशा पीड़ित एवं अपशिष्ट संग्रहक के बच्चों को पुनर्वास एवं स्पांसरशिप का लाभ मिलेगा । इस अभियान के तहत नागरिकों से अपेक्षा है कि वे किसी चौक चौराहों या शहर के किसी स्थान में भिक्षावृत्ति, बाल श्रम, नशा पीड़ित एवं अपशिष्ट संग्रहक के बच्चों को देखे जाने पर चाइल्ड लाइन नंबर 1098 पर अवश्य सूचना देवें। जिससे रायपुर ऐसे बच्चों के लिए सुरक्षित भविष्य का शहर बन सके ।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  15 April 2022

raipur, For world peace , necessary to follow t, Lord Mahavir, Baghel

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल गुरुवार की देर शाम राजधानी के एमजी रोड स्थित दादाबाड़ी में आयोजित भगवान महावीर स्वामी जन्मकल्याणक महोत्सव में शामिल हुए। इस मौके पर उन्होंने दादाबाड़ी परिसर स्थित धर्मनाथ जिनालय में पूजा-अर्चना कर प्रदेशवासियों के सुख-समृद्धि एवं खुशहाली की कामना की। मुख्यमंत्री बघेल ने इस अवसर पर जैन समाज के लोगों को भगवान महावीर स्वामी की 2621वीं जयंती पर बधाई और शुभकामनाएं दीं। मुख्यमंत्री बघेल ने महोत्सव में उपस्थित श्रद्धालुओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि भगवान महावीर के सिद्धांत आज भी प्रासंगिक है। आज पूरी दुनिया तीसरे विश्व युद्ध के मुहाने पर खड़ी है। ऐसे संकट के दौर में भगवान महावीर द्वारा बताए गए सत्य और अहिंसा जैसे मार्गों का अनुशरण करना हम सब लोगों के लिए जरूरी है। उन्होंने पूरे विश्व को सत्य, अहिंसा, ब्रह्मचर्य, अस्तेय तथा अपरिग्रह जैसे महान आदर्शों का मार्ग बताया था। इसके साथ-साथ समाज में परस्पर एक-दूसरे के सम्मान के लिए अनेकांतवाद का महान सिद्धांत दिया। जिसमें सबके विचारों के सम्मान का आदर्श निहित है। आज समाज में शांति, आपसी भाईचारा और परस्पर सम्मान के लिए उनके बताए मार्गों पर चलना बहुत आवश्यक है। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि हमारी सरकार छत्तीसगढ़ में हर समाज और वर्ग की उन्नति के लिए निरंतर कार्य कर रही है। विगत कोरोना संकट के दौर में भी स्थिति से उबरने में सभी समाज के लोगों का भरपूर सहयोग मिला, जिसमें जैन समाज से मिले सहयोग की भी बड़ी भूमिका रही। हमारी सरकार राज्य में मजदूर, किसान, व्यापारी आदि हर वर्ग के लोगों के उत्थान के लिए कृत-संकल्पित है। इसके लिए नित नये योजनाओं और कार्यक्रमों का संचालन किया जा रहा है। राज्य में अब गाय के दूध ही नहीं बल्कि उसके गोबर और गौमूत्र से भी पैसा आने लगे हैं। इस तरह राज्य में विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं का बेहतर से बेहतर क्रियान्वयन कर गत तीन वर्षों के दौरान लोगों के जेब में 91 हजार करोड़ रूपए की राशि डाले गए हैं। जिसके फलस्वरूप कोरोना संकट के दौर में भी छत्तीसगढ़ की अर्थव्यवस्था गतिशील बनी रही और सम्पूर्ण छत्तीसगढ़ उन्नति की दिशा में निरंतर आगे बढ़ रहा है। कार्यक्रम में संसदीय सचिव विकास उपाध्याय, छत्तीसगढ़ राज्य गृह निर्माण मंडल के अध्यक्ष कुलदीप सिंह जुनेजा, रायपुर महापौर एजाज ढेबर, भगवान महावीर जन्मकल्याणक महोत्सव समिति के अध्यक्ष महेन्द्र कोचर, कमल भंसाली, मनोज कोठारी, गुलाब दस्तानी सहित बड़ी संख्या में जैन समाज के लोग उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  15 April 2022

raipur, chhattisgarh chief minister ,wrote a letter, prime minister

रायपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखकर जीएसटी की क्षतिपूर्ति को पांच वर्ष के लिए बढ़ाने का अनुरोध किया। मुख्यमंत्री ने कहा है कि 2021 के दिसंबर में दिल्ली में राज्यों के मुख्यमंत्री एवं वित्त मंत्रियों के साथ बैठक में इस मुद्दे पर चर्चा कर चिंता जाहिर की गयी थी।   मुख्यमंत्री ने लिखा है कि छत्तीसगढ़ जैसे उत्पादक राज्यों के लिए यह एक बड़ा आर्थिक नुकसान है, जबकि उत्पादक राज्य होने के नाते देश की अर्थव्यवस्था के विकास में हमारा योगदान उन राज्यों की तुलना में कहीं अधिक है, जो वस्तुओं एवं सेवाओं के अधिक उपभोग के कारण जीएसटी प्रणाली में लाभान्वित हुए हैं। यदि जीएसटी क्षतिपूर्ति अनुदान जून 2022 के बाद नहीं दिया जाता है तो ऐसी स्थिति में छत्तीसगढ़ को आने वाले सालों में पांच हजार करोड़ के राजस्व की हानि होगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 April 2022

raipur, Working by following ,thoughts ,D Purandeshwari

रायपुर। गुरुवार को भारत रत्न डॉक्टर बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर की जयंती के अवसर पर कलेक्ट्रेट चौक स्थित डॉक्टर अंबेडकर की प्रतिमा पर भाजपा राष्ट्रीय महामंत्री डी पुरंदेश्वरी व पूर्व मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह ने पार्टी के कार्यकर्ताओं व समाज के लोगों के साथ माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। इस अवसर पर छत्तीसगढ़ प्रभारी व राष्ट्रीय महामंत्री डी पुरंदेश्वरी ने कहा कि आज के दिन भारत रत्न डॉक्टर भीमराव अंबेडकर जी की मूर्ति पर माल्यार्पण के साथ उनके विचारों का अनुसरण कर उन्हें सच्ची श्रद्धांजलि देवे। उन्होंने आगे कहा कि बाबा साहब ने जीवन भर जाति पात के भेदभाव से ऊपर सबको साथ रहने का संदेश दिया। आज उन्ही के विचारानुसार भाजपा का नारा है ‘सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास’ अर्थात जाति पात के भेदभाव से परे सभी वर्गों के लिए समान रूप से विकास । बाबासाहेब के कार्यों को स्मरण करते हुए भाजपा उपाध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह ने कहा कि देश सदियों तक एकता और अखंडता के सूत्र में बंधा रहे ऐसा संविधान बाबा साहब ने देश को दिया है। उन्होंने कहा जम्मू कश्मीर में धारा 370 व विशेष राज्य के दर्जे का पहला विरोध बाबा साहब ने किया था। नेहरू से उनसे इस मामले में स्पष्ट मतभेद थे। देश में छोटे राज्यों की परिकल्पना बाबा साहब ने की थी उन्हीं के चिन्हों पर चलते हुए अटल जी प्रशासन आम लोगों की पहुंच तक हो इसलिए छत्तीसगढ़ का निर्माण किया। कार्यक्रम में राष्ट्रीय सहसंगठन महामंत्री शिव प्रकाश भी उपस्थित थे। साथ में नवीन मार्कंडेय, श्रीचंद सुंदरानी, मोतीलाल साहू, संजय श्रीवास्तव ,राजीव अग्रवाल, छगन मूंदड़ा, ओमकार बैस, मीनल चौबे, जिला मीडिया प्रभारी अनुराग अग्रवाल समेत बड़ी संख्या में समाज के लोग व भाजपा कार्यकर्ता मौजूद थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 April 2022

raipur, Assembly Speaker ,Dr. Mahant, remembers Dr. Bhimrao Ambedkar

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधान सभा अध्यक्ष डॉ. चरण दास महंत ने अम्बेडकर जयंती के अवसर पर गुरुवार को विधान सभा परिसर स्थित सेन्ट्रल हाल में प्रतिष्ठापित उनके तैल चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर उन्हे नमन किया। इस अवसर पर नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक, विधायक सत्यनारायणन शर्मा ,विकास उपाध्याय, गुलाब कमरो, विधान सभा के सचिव दिनेश शर्मा एवं सचिवालय के वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।   इस अवसर पर अपने संदेश में डाॅ. महंत ने कहा कि डॉ. अम्बेडकर स्वतंत्र भारत के संविधान के प्रमुख वास्तुकार एवं निर्माता थे। वे स्वतंत्र भारत के प्रथम कानून मंत्री थे। डॉ. अम्बेडकर उच्च कोटि के विद्वान, विचारक, ओजस्वी लेखक, प्रभावशाली वक्ता, योग्य प्रशासक, कानून वेत्ता एवं पिछड़ों तथा दलितों के मसीहा थे। उन्होंने समाज को संकीर्णता, आडम्बर,परंपरावाद एवं धर्मांधता से मुक्त करने का सदैव प्रयास किया। भारत में सामाजिक भेदभाव एवं जातिवाद को जड़ से मिटाने के लिये उन्होंने आजीवन संघर्ष किया। उनके योगदान को देश हमेशा याद रखेगा। डॉ. महंत ने कहा कि बाबा साहब के बताए मार्ग पर चलकर ही हम समरस समाज एवं उन्नत राष्ट्र का निर्माण कर सकते हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 April 2022

raipur,Three-day, National Tribal Literature Festival

रायपुर। राष्ट्रीय जनजातीय साहित्य महोत्सव का आयोजन राजधानी रायपुर के पंडित दीनदयाल उपाध्याय के ऑडिटोरियम में 19 अप्रैल से 21 अप्रैल तक किया जाएगा। राष्ट्रीय महोत्सव का उद्घाटन 19 अप्रैल को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल करेंगे तथा समापन 21 अप्रैल को राज्यपाल अनुसुईया उइके के मुख्य आतिथ्य में होगा। राष्ट्रीय स्तर के तीन दिवसीय आयोजन में राष्ट्रीय जनजातीय साहित्य महोत्सव, राज्य स्तरीय जनजातीय नृत्य प्रदर्शन और राज्यस्तरीय कला एवं चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन होगा। यह आयोजन आदिमजाति अनुसंधान एवं प्रशिक्षण संस्थान द्वारा आयोजित किया गया है। अनुसूचित जाति एवं जनजाति विकास मंत्री डॉ.प्रेमसाय सिंह टेकाम ने गुरुवार को अपने निवास कार्यालय में विभागीय अधिकारियों की बैठक लेकर आयोजन की तैयारियों की समीक्षा की तथा संबंधितों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। मंत्री डॉ.टेकाम ने कहा कि इस तीन दिवसीय आयोजन के दौरान राज्य के विभिन्न अंचलों के जनजातीय समुदाय के प्रबुद्ध व्यक्तियों, समाज प्रमुखों, साहित्यकारों एवं कला मर्मज्ञों को भी आमंत्रित किया जाए। महोत्सव के सांस्कृतिक कार्यक्रम में बस्तर बैंड का प्रदर्शन, बाल कलाकार सहदेव नेताम और जनजातीय नृत्य मुख्य आकर्षक होंगे। साहित्य सम्मेलन को पद्मश्री साहित्यकार हलधर नाग भी सम्बोधित करेंगे। बैठक में सचिव आदिमजाति एवं अनुसूचित जनजाति विकास डीडी सिंह, आयुक्त शम्मी आबिदी सहित विभाग के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। समकालीन साहित्य परिचर्चा राष्ट्रीय जनजातीय साहित्य महोत्सव की तैयारियों के संबंध में विभागीय अधिकारियों ने बताया कि समारोह आयोजन का मुख्य उद्देश्य देशभर में पारम्परिक एवं समकालीन साहित्य से परिचय तथा आधुनिक संदर्भ में उनके विकास की स्थिति ज्ञात करना है। साथ ही छत्तीसगढ़ राज्य में जनजातीय साहित्य के क्षेत्र में कार्य कर रहे शोधार्थियों, साहित्यकारों, रचनाकारों को मंच प्रदान कर जनजातीय साहित्य के संरक्षण एवं संवर्धन के लिए प्रेरित और प्रोत्साहित करना है। राष्ट्रीय साहित्य महोत्सव को दो भागों- शोधपत्र पठन और वरिष्ठ साहित्यकारों के साथ परिचर्चा में विभाजित किया गया है। शोधपत्र पठन के अंतर्गत देशभर से जनजातीय साहित्य पर आधारित शोध पत्र राष्ट्रीय स्तर के समाचार पत्रों, विश्वविद्यालयों एवं संस्थानों के माध्यम से आमंत्रित किए गए हैं। इसी प्रकार वरिष्ठ साहित्यकारों के साथ परिचर्चा में देशभर के जनजातीय साहित्य से संबंधित विभिन्न विषयों के स्थापित एवं नवोदित साहित्यकारों को आमंत्रित कर जनजातीय परम्परा में साहित्य तथा वर्तमान स्थिति, जनजातीय कथाएं, जनजातीय कविताएं, पुरखा साहित्य आदि पर परिचर्चा कराई जाएगी। जनजातीय विषयों के लेखक और शोधार्थियों का संगम साहित्य महोत्सव में देश के विभिन्न राज्यों से जनजातीय विषयों पर लेखन कार्य करने वाले जनजातीय एवं गैरजनजातीय स्थापित एवं विख्यात साहित्यकारों, रचनाकारों, विश्वविद्यालयों के अध्येताओं, शोधार्थियों, विषय विशेषज्ञों को आमंत्रित किया गया है। अब तक 80 शोधपत्र प्राप्त हो चुके हैं। शोध पत्रों के सारांश को पुस्तक आकार देने प्रकाशन की तैयारी चल रही है। शोधार्थियों को कार्यक्रम में शोध पढ़ने के लिए आमंत्रण भेजा जा चुका है। वरिष्ठ साहित्यकारों और विद्वानों के साथ परिचर्चा के लिए देश के विभिन्न जनजातीय राज्यों एवं विश्वविद्यालयों से लगभग 28 प्रोफेसरों एवं साहित्यकारों की सहमति प्राप्त हो चुकी है। विविध कला प्रतियोगिता साहित्य महोत्सव के अंतर्गत कला एवं चित्रकला प्रतियोगिता तीन आयु वर्गों में चित्रकला प्रतियोगिता के लिए राज्यभर के प्रविष्टियां आमंत्रित हो गई हैं। अब तक तीनों आयु वर्गो में 100 प्रविष्टियां प्राप्त हो गई हैं। इसके अतिरिक्त हस्तकला के अंतर्गत माटी, बांस, बेलमेटल, काष्ठकला आदि का भी जीवंत प्रदर्शन किया जाएगा। इन कलाओं में अच्छे प्रदर्शन करने वाले कलाकारों को पुरस्कार एवं प्रमाण पत्र भी प्रदान किए जाएंगे। महोत्सव में छत्तीसगढ़ के विभिन्न नृत्य विधाओं का प्रदर्शन किया जाएगा, जिसमें विभिन्न जनजातीय क्षेत्रों में किए जाने वाले जनजातीय नृत्य शैला, सरहुल, करमा, सोन्दो, कुडुक, डुंडा, दशहरा करमा, विवाह नृत्य (हुल्की), मड़ई नृत्य, गवरसिंह, गेड़ी, करसाड़, मांदरी, डण्डार आदि नृत्यों का प्रदर्शन तीनों दिन संध्या काल में किया जाएगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 April 2022

Raipur, Notice issued ,four private schools

रायपुर। फीस बढ़ाने से लेकर स्कूलों में अध्ययन अध्यापन के लिये सुविधाओ की जांच पिछले तीन दिनों से जारी है। जिला कलेक्टर सौरभ कुमार के सख्त निर्देश के बाद शिक्षा विभाग के जांच दल लगातार स्कूलों में दबिश देकर जांच कर रहा है। मंगलवार को भी जिला शिक्षा कार्यालय रायपुर एवं विकासखण्ड स्तर के निरीक्षण दलों द्वारा छह अशासकीय विद्यालयों का औचक निरीक्षण किया गया। इस निरीक्षण में निरीक्षण दल ने बच्चों द्वारा स्कूलो में उपयोग किया जाने वाले गणवेश, पुस्तक, काॅपी की खरीद और उपलब्ध सुविधाओं के संबंध में जानकारी प्राप्त की। इसके साथ ही शिक्षा के अधिकार अधिनियम 2009 के अनुसार पढ़ने वाले विद्यार्थियों का भी भौतिक सत्यापन किया गया। औचक निरीक्षण में निरीक्षण दलों द्वारा यह भी परीक्षण किया गया की स्कूल द्वारा निर्धारित शुल्क, फीस नियामक समिति द्वारा अनुमोदित है या नहीं, फीस वृद्धि आठ प्रतिशत से अधिक हुई हैं या नहीं इसकी भी जांच की गई। इसके अलावा स्कूलों में अग्निशमन यंत्र, पेय जल, शौचालयों की साफ-सफाई अध्यापन कक्ष की व्यवस्था, शिक्षकों की एवं बच्चों की उपस्थिति, बच्चो का (कोविड-19 ) टीकाकरण किया जा रहा है का भी निरीक्षण किया गया। निजी स्कूलों के निरीक्षणों में होली क्राॅस स्कूल शैलेन्द्र नगर रायपुर, द्वारा निरीक्षण दल को कोई भी दस्तावेज उपलब्ध कराने में असमर्थ रहे। होली क्रास स्कूल बैरन बाजार रायपुर में कक्षा नर्सरी एवं कक्षा 11 वी., कक्षा 12 वीं में 8 प्रतिशत से अधिक शुल्क वृद्धि की गई है। फीस वृद्धि में नोडल प्राचार्य का अनुमोदन नहीं कराया गया है तथा प्राचार्य द्वारा मान्यता संबंधी दस्तावेज उपलब्ध नहीं कराया गया। शंकरा उ.मा. शाला उरकुरा रायपुर में बच्चों की दर्ज संख्या की तुलना में अधिक पाई गई। आडियल पब्लिक स्कूल उरकुरा में प्रयोगशाला नहीं है तथा स्कूल में कक्ष की कमी पाई गई। उन्हें तत्काल नोटिस देते हुए समस्त दस्तावेज के साथ कार्यालय में उपस्थित होने के निर्देश दिये गये है। साथ ही संबंधित शासकीय विद्यालय के नोडल अधिकारी को भी नोटिस जारी किया जा रहा है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 April 2022

Raipur, Singing Idol 2022 , organized in May

रायपुर । रायपुर नगर निगम द्वारा स्वर कोकिला स्व. लता मंगेशकर की स्मृति में रायपुर सिंगिंग आइडल 2022 का आयोजन मई 2022 में किया जाना है। जिसका बुधवार को पोस्टर विमोचन शहर के महापौर एजाज ढेबर व नेता प्रतिपक्ष श्रीमती मीनल चैबे द्वारा किया गया। इस अवसर पर नगर निगम संस्कृति, पर्यटन, मनोरंजन एवं विरासत संरक्षण विभाग के अध्यक्ष आकाश तिवारी भी उपस्थित रहें। संस्कृति विभाग के अध्यक्ष आकाश तिवारी ने बताया कि रायपुर सिंगिंग आइडल शहर वासियों को एक नयी ऊर्जा देने की सोच से तैयार किया गया है। रायपुर सिंगिंग आइडल में दो कैटेगरी में प्रतियोगिता रखी गयी है जिसमें 16 के भीतर आयु व 16 के ऊपर आयु वर्ग के प्रतिभागी शामिल है और वे हिन्दी व छत्तीसगढ़ी भाषा में अपनी प्रस्तुति दे सकते है। आयोजन का ग्रैंड फिनाले एक मई 2022 को स्वामी विवेकानंद सरोवर बूढ़ापारा में होगा। इस आयोजन में रायपुर शहर के 70 वार्ड में संगीत प्रेमियों के लिए एक बड़ा मंच साबित होगा जिसे उन्हें अपनी प्रतिभा को आगे ले जाने में मदद मिलेगी। इस आयोजन में दो राउंड में ऑडिशन लिया जायेगा। ऑडिशन में 16 के भीतर आयु के 5 प्रतिभागियों व 16 के ऊपर आयु वर्ग 15 प्रतिभागियों को फाइनल में अपनी प्रस्तुति देने चयन किया जायेगा। कार्यक्रम को पहला ऑडिशन 16 अप्रैल व दूसरा ऑडिशन 23 अप्रैल को महात्मा गांधी सदन नगर निगम मुख्यालय में होगा। इस आयोजन में भाग के लेने के लिए प्रतिभागी को निःशुल्क फार्म उपलब्ध करवाया जायेगा। जिसमें वे अपनी संपूर्ण जानकारी के साथ ऑडिशन वाले दिन नगर निगम मुख्यालय में जमा करना होगा। आयोजन से संबंधित जानकारी नगर निगम मुख्यालय सहित सभी जोन कार्यालय से भी प्राप्त की जा सकती है। आयोजन में चयनित प्रतिभागियों को आकर्षक उपहार भी दिये जायेगें।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 April 2022

raipur, Cultural upliftment ,  aspirational districts, Baghel

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ के आकांक्षी जिलों के विकास के प्रचलित मापदंडों में सांस्कृतिक उत्थान को भी शामिल किए जाने का सुझाव दिया है। उन्होंने कहा कि ट्रांसफार्मेशन ऑफ एस्पिरेशनल डिस्ट्रिक्ट प्रोग्राम (टीएडीपी) के मॉनिटरिंग इंडीकेटर में स्थानीय बोली में शिक्षा, मलेरिया व एनीमिया में कमी, वनोपज की समर्थन मूल्य में खरीद, लोक कला, लोक नृत्य तथा पुरातत्व का संरक्षण-संवर्धन, जैविक खेती, वनाधिकार पट्टे आदि को शामिल किया जाना चाहिए। बघेल ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को लिखे पत्र में कहा है कि इन सभी मापदंडों पर छत्तीसगढ़ ने शानदार काम किया है। हमारे राज्य में कुल 10 आकांक्षी जिले हैं, जिसमें 8 जिले पूर्णतः अनुसूचित क्षेत्र में हैं। बस्तर संभाग के सात जिले अनुसूचित जनजाति बहुल और वामपंथी उग्रवाद से ग्रसित हैं। इन जिलों के विकास को लेकर नीति आयोग ने समय-समय पर विभिन्न मापदण्ड के आधार पर वर्गीकृत किया है। हमारे वनांचल तथा ग्राम्य जीवन में संस्कृति और परंपराओं का विशेष योगदान होता है, जिससे वहां के लोगों के जीवन में समरसता, उत्साह एवं स्वावलम्बन का भाव रहे, इसलिए आकांक्षी जिलों की अवधारणा में सांस्कृतिक उत्थान के बिन्दु को भी यथोचित महत्व एवं ध्यान दिया जाना चाहिए। उपरोक्त इंडीकेटरों को भी जोड़े जाने पर मुझे विश्वास है कि आकांक्षी जिलों के बहुमुखी विकास में किये जा रहे सभी प्रयासों पर भी ध्यान रहेगा और जिस आशा के साथ यह आकांक्षी जिलों की पृथक मॉनीटरिंग व्यवस्था शुरू की गई है वह भी सफल होगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 April 2022

raipur, Sarpanch , Rampur Assembly Constituency,Chief Minister

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल स मंगलवार को उनके निवास कार्यालय में रामपुर विधानसभा क्षेत्र के छह ग्राम पंचायतों से आए सरपंचगण ने सौजन्य मुलाकात की । इस अवसर पर कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे भी उपस्थित थे । उन्होंने ग्राम पंचायत क्षेत्र में सीसीरोड निर्माण सहित विभिन्न विकास कार्यों के संबंध में मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंपा। मुख्यमंत्री ने सरपंचों को उचित पहल का आश्वासन दिया। सरपंचों में ग्राम पंचायत बगबुड़ा से पुष्पा कंवर, ग्राम पंचायत कुकरीचोली से दीप्ति कमल, ग्राम पंचायत सेमीपाली से चमेली कंवर, ग्राम पंचायत नकटीखार से कुमारी रूपा तिर्की, ग्राम पंचायत देवरमाल से नंदनी कंवर और ग्राम पंचायत कुदुरमाल से पदमा कंवर उपस्थित थीं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 April 2022

raipur,Representatives ,Sarva Adivasi Samaj , Chief Minister Baghel

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से मंगलवार को उनके निवास कार्यालय में विधानसभा उपाध्यक्ष मनोज मण्डावी के नेतृत्व में सर्व आदिवासी समाज के प्रतिनिधि मंडल ने सौजन्य मुलाकात की। प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री को बताया कि उनकी घोषणा के अनुरूप राजाराव पठार में देवगुड़ी के विकास, शहीद वीर नारायण सिंह की प्रतिमा की स्थापना और स्मारक निर्माण तथा बूढ़ादेव स्थल के विकास के लिए 65 लाख रुपये की राज्य राशि वीर मेला आयोजन समिति को प्राप्त हो चुकी है। प्रतिनिधि मंडल ने इसके लिए मुख्यमंत्री बघेल के प्रति आभार प्रकट किया। उल्लेखनीय है कि स्वतंत्रता संग्राम सेनानी शहीद वीर नारायण सिंह के बलिदान दिवस के अवसर पर पिछले वर्ष 10 दिसंबर को बालोद जिले के गुरुर विकासखंड के राजाराव पठार में आयोजित वीर मेले में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 65 लाख रुपये की राशि विभिन्न कार्यों के लिए उपलब्ध कराने की घोषणा की थी। इस अवसर पर सर्व आदिवासी समाज के प्रदेश अध्यक्ष सोहन पोटाई, वीर मेला आयोजन समिति राजाराव पठार के महासचिव कृष्ण कुमार ठाकुर एवँ सदस्यगण उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 April 2022

raipur, Khairagarh by-election,52.74 percent polling

रायपुर / राजनांदगांव। छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिला के खैरागढ़ विधानसभा के लिए मंगलवार सुबह 7 बजे से दोपहर एक बजे तक 52.74 प्रतिशत मतदान हुआ है। अब तक 52.88 प्रतिशत पुरुष और 52.59 प्रतिशत महिलाओं ने मतदान किया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 April 2022

raipur,Khairagarh Assembly ,by-election, BJP candidate, Komal Jangle

रायपुर / राजनांदगांव / खैरागढ़। छत्तीसगढ के राजनांदगांव जिला के खैरागढ़ विधानसभा उपचुनाव के लिए वोटिंग मंगलवार सुबह से ही शुरू हो चुकी है। वोटिंग के लिए बड़ी संख्या में लोग बूथ केंद्रों में पहुंच रहे हैं। भाजपा उम्मीदवार कोमल जंघेल ने घिरघोली मतदान केंद्र में मतदान किया। इससे पूर्व कांग्रेस उम्मीदवार यशोदा वर्मा पोलिंग बूथ पहुंचीं और उन्होंने भी वोटिंग की। उल्लेखनीय कि खैरागढ़ के 291 मतदान केंद्रों में मतदान हो रहा हैं। खैरागढ़ विधानसभा उपचुनाव के लिए कुल दो लाख 12 हजार मतदाता हैं, जिनमें एक लाख पांच हजार महिला और एक लाख छह हजार पुरुष मतदाता हैं। वहीं, संवेदनशील मतदान केंद्रों की संख्या 86 है, जबकि 53 मतदान केंद्र अति संवेदनशील हैं। सुरक्षा के लिहाज से और शांतिपूर्ण मतदान कराने के लिए केंद्रीय सुरक्षा बल की 22 कंपनियां तैनात की गई हैं। कुल एक हजार एक सौ 64 पुलिस अधिकारियों-कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 April 2022

raipur, State level, three-day Kisan Mela

रायपुर। राज्यस्तरीय विशाल किसान मेले का आयोजन 13 अप्रैल से 15 अप्रैल तक बिलासपुर जिला के साइंस कॉलेज मैदान में किया जा रहा है। इस तीन दिवसीय किसान मेले का शुभारंभ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल करेंगे। मेले में पूरे राज्य भर से हजारों की संख्या में किसान जुटेंगे और उन्नत खेती सहित पशुपालन, मछलीपालन, उद्यानिकी, खेती की तकनीकी की जीवंत जानकारी उन्हें मेले में प्रदर्शनी के माध्यम से दी जाएगी। राज्यस्तरीय किसान मेले के आयोजन के लिए छत्तीसगढ़ मंडी बोर्ड को नोडल की जिम्मेदारी सौंपी गई है। राज्यस्तरीय किसान मेले के माध्यम से जिले के प्रगतिशील किसानों के उत्पादों तथा महिला स्व-सहायता समूहों के उत्पादों की प्रदर्शनी लगाई जाएगी तथा उनका विक्रय भी किया जाएगा। मेले में कृषि यंत्रों तथा आधुनिक कृृषि पद्धति की जानकारी किसानों को दी जाएगी। मेले के माध्यम से किसानों को वर्मी कम्पोस्ट के उत्पादन तथा रासायनिक खादों पर निर्भरता कम करने के लिए भी जागरूक किया जाएगा। राज्यस्तरीय किसान मेले में कृषि, उद्यानिकी, पशुधन, मछली पालन, कामधेनु विश्वविद्यालय अंजोरा, बीज एवं कृषि निगम, सहकारी दुग्ध महासंघ आदि उत्पाद एवं विक्रय संबंधी स्टाल लगाये जाएंगे। मंडी बोर्ड के अपर प्रबंध संचालक महेन्द्र सिंह सवन्नी ने बताया कि राज्यस्तरीय किसान मेले में कृषि एवं संबंधित क्षेत्र की 110 कंपनियां भी अपने उत्पादों का प्रदर्शन करेंगी और किसानों को बेहतर उत्पादन प्राप्त करने की तकनीक की जानकारी भी देंगी। मेले में सी-मार्ट के डोम में राज्यभर के महिला स्व-सहायता समूह के उत्पाद का विक्रय सह प्रदर्शन भी किया जाएगा। मेले में राज्य के सभी 28 जिलों के किसान शामिल होंगे। मेले में कृषि विभाग की योजनाओं और उपलब्धियों की प्रदर्शनी भी लगाई जाएगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 April 2022

raipur, Chief Minister prayed ,performing aarti

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रविवार की देर शाम शिवरीनारायण में महानदी, शिवनाथ एवं जोंक नदी के संगम पर आरती कर प्रदेशवासियों की सुख समृद्धि की कामना की। संगीतमय माहौल में महानदी की आरती के अवसर पर भव्य दृश्य देखने को मिला। आरती के समय सामूहिक मन्त्रोच्चारण से वहां उपस्थित जनसमुदाय भावविभोर हो उठा। इस अवसर पर मुख्यमंत्री के साथ मंत्री द्वय ताम्रध्वज साहू, डॉक्टर शिव कुमार डहरिया, राज्य गोसेवा आयोग के अध्यक्ष राजेश्री महंत डॉक्टर रामसुंदर दास, नागरिकों ने भी आरती की। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इस अवसर पर बाबा घाट पर स्थित माता शबरी की प्रतिमा का अनावरण किया। मुख्यमंत्री ने 238 करोड़ के विभिन्न विकास कार्यों का भूमिपूजन, शिलान्यास भी किया। मुख्यमंत्री ने 50 कुम्हार परिवारों (हितग्राहियों) को निःशुल्क इलेक्ट्रॉनिक चाक वितरण किया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 April 2022

rajnandgaon, Polling party leaves ,Khairagarh assembly, by-election

राजनांदगांव। खैरागढ़ विधानसभा क्रमांक 73 के उपचुनाव के लिए राजनांदगांव शहर के बीज निगम कार्यालय से मतदान दलों को मतदान सामग्री देकर 291 मतदान केंद्रों के लिए सोमवार सुबह रवाना किया गया। खैरागढ़ विधानसभा उपचुनाव के तहत मंगलवार 12 अप्रैल को मतदान की प्रक्रिया संपन्न होगी, जिसके लिए खैरागढ़ विधानसभा क्षेत्र में 291 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। इन मतदान केंद्रों के लिए आज राजनांदगांव शहर के बीज निगम कार्यालय से मतदान दलों को मतदान सामग्री देकर रवाना किया गया। इस संबंध में राजनांदगांव कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी तारण प्रकाश सिन्हा ने कहा कि मतदान दलों को प्रशिक्षण देखकर मतदान के लिए रवाना किया गया है। उन्होंने बताया कि मतदान केंद्रों में व्यापक सुरक्षा व्यवस्था के इंतजाम किए गए हैं। वहीं 150 मतदान केंद्रों में लाइव वेबकास्टिंग के जरिए निगरानी की जाएगी। मतदान प्रक्रिया संपन्न कराने के लिए 291 मतदान केंद्र बनाए गए, जिनमें महिलाओं के लिए दो संगवारी पोलिंग बूथ भी बनाया गया है। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी तारन प्रकाश सिन्हा ने खैरागढ़ के मतदाताओं से अपने मताधिकार का शत-प्रतिशत उपयोग करने की अपील की है। खैरागढ़ विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत कुल दो लाख 11 हजार 516 मतदाता हैं। जिसमें पुरूरुष मतदाता एक लाख छह हजार 266 तथा महिला मतदाता एक लाख पांच हजार 250 हैं। इनमें 80 वर्ष से अधिक एक हजार 612 तथा नये मतदाता तीन हजार 752 है। दिव्यांग मतदाताओं की संख्या एक हजार 11 और 89 सर्विस वोटर शामिल है। खैरागढ़ विधानसभा उपचुनाव के लिए मतदान के प्रथम चरण के तहत डाक मतपत्रों से 80 वर्ष से अधिक आयु के बुजुर्ग और दिव्यांग मतदाता जो मतदान केन्द्र तक पहुंचने में असमर्थ थे उन्हे चिन्हित कर मतदान की प्रक्रिया संपन्न कराई जा चुकी है जिसके तहत 104 लोगों ने अपने मताधिकार का उपयोग किया है। वहीं अब 12 अप्रैल को इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन के जरिए मतदान की प्रक्रिया 291 मतदान केन्द्रों के माध्यम से संपन्न कराई जाएगी। इनमें 283 मतदान केन्द्र और 8 सहायक मतदान केन्द्र बनाये गए हैं। जिसमें 53 अतिसंवेदनशील, 11 संवेदनशील, 86 राजनैतिक संवेदनशील और 5 सहायक मतदान केन्द्र के साथ 133 सामान्य मतदान केन्द्र शामिल हैं। 12 अप्रैल की सुबह 7:00 बजे से शाम 5:00 बजे तक इन मतदान केन्द्रों में मतदान की प्रक्रिया संपन्न कराई जाएगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 April 2022

raipur,Chhattisgarh,Old pension scheme ,implemented, order issued

रायपुर। छत्तीसगढ़ सरकार ने पुरानी पेंशन योजना को लागू कर दिया है। इस सिलसिले में आठ अप्रैल को लिखे पत्र को सोमवार को विधिवत आदेश जारी कर दिए गए हैं। सभी विभाग प्रमुखों को पत्र लिखकर नवीन अंशदायी पेंशन योजना के अंतर्गत की जा रही मासिक कटौती को भी खत्म करने का निर्णय लिया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 April 2022

raipur,Chief Minister, pays tribute , Mahatma Jyotiba Phule

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सोमवार को समाज सुधारक, विचारक, लेखक और दार्शनिक महात्मा ज्योतिबा फुले की जयंती पर उन्हें नमन किया। बघेल ने कहा है की ज्योतिबा फुले भारतीय समाज में प्रचलित जाति व्यवस्था और उस पर आधारित भेदभाव के प्रबल विरोधी थे। उन्होंने महिलाओं व दलितों के उत्थान के लिए कई कार्य किए। महात्मा फुले ने महिला शिक्षा को बढ़ावा दिया। उन्होंने अपनी धर्मपत्नी सावित्रीबाई फुले को भी शिक्षा दिलाई जिससे वे भारत की पहली अध्यापिका बनीं। दलितों के प्रति भेद-भाव समाप्त कर उन्हें समाज में स्थान दिलाने के लिए महात्मा फुले ने सत्यशोधक समाज की स्थापना की। बघेल ने कहा कि महात्मा फुले समाज को अंधविश्वास और कुप्रथाओं से मुक्त करना चाहते थे। उन्होंने समाज को कुरीतियों से मुक्ति दिलाने के लिए सभी वर्गों की शिक्षा पर बल दिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि महात्मा ज्योतिबा फुले की सेवा भावना और विचार मूल्य हमें सदा दीन-दुखियों की सेवा और समाज में समता स्थापित करने के लिए प्रेरित करते रहेंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 April 2022

raipur, Charging 600 , corona booster dose, Mohan Markam

रायपुर। 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को कोरोना के बूस्टर डोज लगवाने पर 600 रुपये की राशि वसूलने का केंद्र का निर्णय जनविरोधी है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि केंद्र सरकार एक बार फिर अपने दायित्व से भाग रही है। देश के नागरिकों को स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध करवाने केंद्र सरकार का कर्तव्य है। कोरोना तो वैश्विक महामारी है ऐसे में उससे निपटने के लिये हर नागरिक का मुफ्त टीकाकरण करवाना केंद्र सरकार की प्राथमिकता में होना चाहिये। मुफ्त टीका भारत के हर नागरिक का अधिकार है। मोदी सरकार कोरोना के बूस्टर डोज के टीके के लिये पैसे वसूल कर एक बार फिर से देश के नागरिकों के साथ धोखा कर रही है। मोहन मरकाम ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था व्यापार मेरे खून में है। अब देश के नागरिकों की स्वास्थ्य और सुरक्षा में भी व्यापार कर रहे हैं। इसके पहले भी जब कोरोना टीका लगाने की शुरुआत हुई थी तब भी मोदी सरकार ने इसके लिये राज्यों से टीके की कीमत वसूलने का निर्णय लिया था। यहीं नहीं केंद्र सरकार जो टीके 150 रुपये में खरीद रही थी उसी टीके के लिये राज्यों से 400 रुपये और 600 रुपये वसूला गया था। मोहन मरकाम ने कहा कि आजादी के बाद से ही देश की सभी केंद्र सरकारों ने जनता के लिये मुफ्त टीके की व्यवस्था करना अपना कर्तव्य समझ कर अनेकों बीमारियों खसरा, चेचक, टीवी, पोलिया जैसी घातक बीमारियों का मुफ्त टीकाकरण करवाया, किसी भी सरकार ने जनता को दिये जाने वाले टीके को व्यापार नहीं समझा और न ही बोझ समझा। मोदी सरकार कोरोना के टीके में देश की जनता को बार-बार यह जताने प्रयास किया है कि वह टीका लगवा कर जनता पर अहसान कर रही है जबकि यह टीका भी जनता के द्वारा दिये गये टैक्स से आता है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 April 2022

raipur, Bhupesh Baghel, saving Shri Ram

रायपुर। भगवान राम ने अपने 14 साल के वनवास में से अधिकांश समय छत्तीसगढ़ में बिताया था। प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भगवान राम के छत्तीसगढ़ में रहने के अनेक पौराणिक और किवदंतियों में अवशेष मिलते हैं। छत्तीसगढ़ में 15 साल तक भाजपा की सरकार थी, भाजपा ने कभी भगवान राम के वनगमन के अवशेषों को संरक्षित और संवर्धित करने का काम नहीं किया। भाजपा ने भगवान राम के नाम का उपयोग अपनी राजनीति को चमकाने के लिये भूपेश बघेल भगवान राम की छत्तीसगढ़ से जुड़ी स्मृतियों को सहेजने का काम कर रहे हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने चंदखुरी में माता कौशल्या के जन्मस्थली में उनके मंदिर के भव्य सौन्दर्यीकरण के बाद शिवरीनारायण में भगवान राम के वनगमन परिपथ के अंतर्गत कराये गये निर्माणों के लोकार्पण कर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ से भगवान राम के अटूट भावनात्मक रिश्ते को और मजबूत करने का काम किया है।   सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि पौराणिक मान्यता के अनुसार 14 वर्ष के वनवास के दौरान प्रभु राम ने लगभग 10 वर्ष का समय छत्तीसगढ़ में गुजारा था। वनवास काल में उन्होंने छत्तीसगढ़ में प्रवेश कोरिया के सीतामढ़ी हरचौका से किया था। उत्तर से दक्षिण की ओर बढ़ते हुए वे छत्तीसगढ़ के अनेक स्थानों से गुजरे। सुकमा का रामाराम उनका अंतिम पड़ाव था। प्रभु राम वनवास काल के दौरान लगभग 2260 किलोमीटर की यात्रा की थी। छत्तीसगढ़ की पावन धरा में रामायण काल की अनेक घटनाएं घटित हुई हैं जिसका प्रमाण यहां की लोक संस्कृति, लोक कला, दंत कथा और लोकोक्तियां है। कई शोध प्रकाशनों से पता चलता है कि प्रभु श्रीराम ने छत्तीसगढ़ में वनगमन के दौरान लगभग 75 स्थलों का भ्रमण किया।   सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि छत्तीसगढ़ की सांस्कृतिक परम्पराओं में शामिल मूल्यों को सहेजने और उन्हें पुर्नस्थापित करने का कार्य मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के द्वारा शुरू किया गया है। कोरिया से लेकर सुकमा तक राम वनगमन मार्ग में अनेक साक्ष्य बिखरे पड़े हैं, जिन्हें सहेजना छत्तीसगढ़ के सांस्कृतिक मूल्यों को ही सहेजना है। इसीलिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इस पूरे राम वन गमन मार्ग को पर्यटन परिपथ के रूप में विकसित करने की योजना बनाई है। इसके अंतर्गत प्रथम चरण में सीतामढ़ी-हरचौका (कोरिया), रामगढ़ (सरगुजा), शिवरीनारायण (जांजगीर-चांपा), तुरतुरिया (बलौदाबाजार) भाठापारा, चंदखुरी (रायपुर), राजिम (गरियाबंद), सप्तऋषि आश्रम सिहावा (धमतरी), जगदलपुर और रामाराम (सुकमा) को विकसित किया जा रहा है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 April 2022

raipur, Congress , winning elections , Khairagarh , Dhananjay

रायपुर। पूर्व मंत्री एवं भाजपा विधायक बृजमोहन अग्रवाल के आरोपों पर कड़ी प्रतिक्रिया करते हुए प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने शनिवार को बयान जारी कर कहा कि खैरागढ़ उपचुनाव में कांग्रेस को मिल रहे व्यापक जनसमर्थन से भाजपा के नेता बैचेन हो रहे हैं। खैरागढ़ उपचुनाव में भाजपा की करारी हार के लिए अभी से बहाना बनाना शुरू कर दिये हैं। सच्चाई यह है कि 15 साल के सत्ता के बाद भाजपा को छत्तीसगढ़ की जनता ने 15 सीट में समेट दिया और उपचुनाव में हार के बाद भाजपा अब 14 सीट में सिमट गई है। भाजपा की सत्ता जाने के बाद राज्य में जितने भी चुनाव हुए उसमें भाजपा को मुंह के ही खानी पड़ी है। चित्रकूट दंतेवाड़ा और मरवाही के उपचुनाव में भी भाजपा को जनता ने खारिज कर दिया। नगर निगम नगर पालिका और जिला पंचायत और त्रिस्तरीय पंचायती राज चुनाव में भी भाजपा को मुंह की खानी पड़ी थी। धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि खैरागढ़ की जनता ने मन बना लिया है कि 12 अप्रैल को खैरागढ़ जिला बनाने के लिये खैरागढ़ के विकास लिये मतदान करेंगे। खैरागढ़ की जनता भाजपा के 15 साल के कुशासन और वायदा खिलाफी के खिलाफ मतदान करने जा रही है। कांग्रेस उम्मीदवार के पास क्षेत्र के विकास के लिये विजन है जो कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र के माध्यम से जनता के समक्ष रखा है। भाजपा सिर्फ नकारात्मकता के आधार पर चुनाव लड़ रही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 April 2022

raipur, Anuradha Paudwal , atmosphere devotional , Gayatri Mantra

रायपुर। राम वनगमन पर्यटन परिपथ शिवरीनारायण के दूसरे दिन सांस्कृतिक कार्यक्रमों को देखने के लिए देश-विदेश से आए लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। समारोह के दूसरे दिन शनिवार देर शाम भारत की मशहूर पार्श्व गायिका अनुराधा पौडवाल को देखने और सुनने लोगों में अपार उत्साह देखा गया। पार्श्व गायिका अनुराधा पौडवाल के मंच पर आते ही लोगों ने तालियां बजाकर उनका स्वागत किया और अनुराधा पौडवाल ने भी छत्तीसगढ़िया सबले बढ़िया कहकर लोगों के उत्साह को दोगुना कर दिया। अनुराधा पौडवाल ने माता नवरात्रि एवं राम नवमी की शुभकामनाओं के संदेश के साथ वहां मौजूद लोगों का अभिवादन स्वीकार किया। इस दौरान अनुराधा पौडवाल ने कहा कि मैं मां शबरी की नगरी में आ कर खुद को अभिभूत महसूस कर रही हूं। अनुराधा पौडवाल ने गायत्री मंत्र प्रस्तुत कर वातावरण को भक्तिमय किया और तूने मुझे बुलाया शेरा वालिए..... भजन गाया तो पंडाल में भी जय माता दी के नारे लगने लगे। इस दौरान अनुराधा पौडवाल ने कहा कि एक ऐसा गीत बनना चाहिए जो छतीसगढ़ी रामायण स्थल को लोगों तक पहुचाये, अनुराधा पौडवाल ने कहा कि इस गीत को वो हिंदी और छत्तीसगढ़ी दोनों भाषाओं में गाएंगी ताकि छत्तीसगढ़ के रामायणकालीन स्थानों को पूरे देश के लोग बेहतर तरीके से जान सकें।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 April 2022

raipur, Shivraj Chauhan ,attacked Bhupesh Baghel ,Chhattisgarh

रायपुर। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी छत्तीसगढ़ की गरीब जनता को निशुल्क 5 किलो राशन भेजते हैं और मैं मध्यप्रदेश में अलग से 5 किलो राशन देता हूं, लेकिन यहां (छत्तीसगढ़) तो भूपेश बघेल हैं, जो गरीबों का राशन तक खा जाते हैं। पीएम आवास योजना के गरीबों के मकान भी खा गए। केंद्र सरकार प्रधानमंत्री आवास योजना की राशि में से 60 प्रतिशत देती है, 40 प्रतिशत राशि राज्य सरकार को देना होती है, लेकिन भूपेश बघेल ने ये राशि भी नहीं दी। जनता का धन भी लूटा जा रहा है। गरीबों का हक खाने वालों को जनता कभी माफ नहीं करेगी। मप्र के मुख्यमंत्री शुक्रवार को छत्तीसगढ़ की खैरागढ़ विधानसभा में 2 उपचुनावी जनसभाओं को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने साल्हेवारा और कोपेभांठा गंडई में कांग्रेस की भूपेश बघेल सरकार को आड़े हाथों लेते हुए भ्रष्टाचार की पोषक बताया। उन्होंने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि 3 साल की कांग्रेस सरकार ने गरीबों के हक को मारा है। केंद्र की मोदी सरकार की योजनाओं का पूरा लाभ भी जनता तक नहीं पहुंचने दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि जब रमन सिंह छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री थे, तब राज्य क्रेडेबल ग्रोथ के लिए जाना जाता था। लेकिन जबसे भूपेश बघेल मुख्यमंत्री बने, छत्तीसगढ़ करप्शन की ग्रोथ के लिए जाना जाने लगा। छत्तीसगढ़ में आज विकास खत्म, केवल भ्रष्टाचार का राज है। उन्होंने कहा कि भाजपा मिशन के लिए कार्य करती है जबकि कांग्रेस कमीशन के लिए। इस दौरान उन्होंने भाजपा उम्मीदवार कोमल जंघेल को भारी मतों से जिताने का अपील की।   ग्रेस सरकार ने छलावा किया शिवराज ने कहा कि रोटी, कपड़ा, मकान, पढ़ाई, दवाई और रोजगार का इंतजाम गरीबों और किसानों का हक है, लेकिन भूपेश बघेल सरकार ने न तो किसी को पढ़ाया और न ही किसी की फीस भरवाई। कोरोना काल में पहले कांग्रेस ने वैक्सीन को लेकर भ्रम फैलाया था कि ये मत लगवाना। प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में हमने कोरोना पर विजय पाई है। कांग्रेस ने युवाओं को 2,500 रुपये का बेरोजगारी भत्ता देने का वादा किया था, लेकिन सरकार बनने के बाद कुछ नहीं दिया। जिस तरह कमलनाथ ने मध्यप्रदेश में कर्जमाफी के नाम पर झूठ बोला था, उसी तरह भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ में किसानों के साथ छलावा किया है। छत्तीसगढ़ में धर्मांतरण का खेल शुरू मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि आजकल भूपेश बघेल वोट मांगने आते हैं और कहते हैं कि जिला बना दूंगा लेकिन मैं पूछता हूं कि पिछले 3 साल में आपने क्या किया। कांग्रेस सरकार सनातन संस्कृति को कुचलने की कोशिश कर रही है। यहां धर्मांतरण का खेल शुरू हो गया। उन्होंने कहा कि यह श्रीराम का देश है। इस संस्कृति को कोई नहीं कुचल पाया। छत्तीसगढ़ की जनता तुम्हें माफ नहीं करेगी। हमने मध्यप्रदेश में कानून बनाया है, लालच देकर, डर या भय से कोई धर्मांतरण नहीं कर सकता।   भूपेश सरकार में पनप रहे माफिया शिवराज ने आरोप लगाते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ में शराब माफिया, रेत माफिया और कोयला माफिया पनप रहे हैं। भूपेश बघेल ने ट्रांसफर उद्योग चालू कर कलेक्टर और एसपी के रेट तय कर दिए हैं। छत्तीसगढ़ में जनता का धन लूटा जा रहा है, गरीब जनता के अधिकारों का हनन किया जा रहा है, जबकि मध्यप्रदेश की भाजपा सरकार में माफियाओं को कुचला जा रहा है, जनता को सुशासन देने भाजपा की सरकारें प्रतिबद्ध हैं। उन्होंने चेतावनी भरे अंदाज में कहा कि भूपेश बघेल की कांग्रेस सरकार ने अगर गड़बड़ नहीं रोकी, तो जनता कांग्रेस के सिंहासन को नेस्तनाबूद कर देगी। जहां-जहां भूपेश गए, वहां-वहां कांग्रेस साफ उन्होंने कहा कि कांग्रेस हम दो हमारे दो के सिद्धांत पर चल रही है। हाल ही में 4 राज्यों में हुई कांग्रेस की दुर्गति को हमने देखा है। कांग्रेस में केवल 2 ही नेता हैं। उत्तरप्रदेश में 2 ही सीट मिली और देशभर में 2 ही राज्य में कांग्रेस बची है। भूपेश बघेल जहां-जहां गए वहां-वहां बंटाधार हुआ है। भूपेश असम, उत्तरप्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब में सरकार बनाने गए थे, लेकिन साफ करके आ गए, यहां भी एक बाबा थे सिंहदेव ढाई-ढाई साल का समझौता हुआ था, आधा तुम्हारा आधा हमारा। कांग्रेस के जाल में नहीं फंसना शिवराज ने कहा कि कांग्रेस के किसी भी लोभ लालच में जनता को नहीं आना है, क्योंकि कांग्रेस पहले भी लालच देकर जनता को ठग चुकी है। चुनावों के समय सत्ता पाने के लिए कांग्रेस लुभावने वादे करती है, लोभ लालच देती है लेकिन हमें उसके जाल में नहीं फंसना है। उन्होंने कहा कि मामा आपसे यही कहने आया है। कांग्रेस को सबक सिखाने के लिए संकल्प लीजिए कि भाजपा को अपना आशीर्वाद देकर विजय बनाइये।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 April 2022

raipur, Chief Minister Baghel ,congratulated ,Durgashtami and Mahanavami

  रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदेशवासियों को दुर्गाष्टमी और महानवमी की बधाई और शुभकामनाएं दी है। बघेल ने नवरात्रि के पावन अवसर पर मां दुर्गा से प्रदेशवासियों की सुख, समृद्धि और खुशहाली की प्रार्थना की है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि नवरात्रि देवी उपासना का पर्व है। पूरे देश में नौ दिनों तक देवी के नौ रूपों की भक्ति भाव से पूजा अर्चना की जाती है। इस अवसर पर घरों, मंदिरों में कन्या भोज कराया जाता है। बघेल ने कहा कि शक्ति स्वरूपा देवी हमारे घरों में बेटियों के रूप में आती हैं। केवल नौ दिन के लिए नहीं बल्कि हमेशा बेटियों और महिलाओं के प्रति सम्मान और सुरक्षा के भाव से हम सच्चे अर्थों में उपासना को सार्थक कर सकते हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  8 April 2022

raipur, Chief Minister Baghel, gifted crores , Narayanpur district

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शुक्रवार को नारायणपुर जिला के प्रवास के दौरान नारायणपुर वासियों को 127 करोड़ 83 लाख रुपये लागत के 101 विकास कार्यों की सौगात दीे। उन्होंने इनमें से 72 करोड़ आठ लाख 25 हजार रुपये की लागत के 46 विकास कार्यों का लोकार्पण और 55 करोड़ 75 लाख रुपये की लागत के 55 विकासकार्यों का भूमिपूजन किया। इसके अलावा मुख्यमंत्री बघेल सामूहिक कन्या विवाह योजना में नव विवाहित 251 जोड़ों को उनके खुशहाल दाम्पत्य जीवन के लिए आशीर्वाद दिया। मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में विभिन्न शासकीय योजनाओं से लाभान्वित हितग्राहियों को चेक एवं उनकी जरूरत के समानों का वितरण भी किया। मुख्यमंत्री ने बालक उच्चतर माध्यमिक विद्यालय खेल मैदान में आयोजित इस कार्यक्रम में अबूझमाड़ क्षेत्र के 500 किसानों को मसाहती पट्टे वितरित किये। बघेल ने समाज कल्याण विभाग के 36 हितग्राहियों को श्रवण यंत्र, ट्रायसिकल, बैटरी चलित ट्राइसिकल, दिव्यांगजन विशिष्ट पहचान कार्ड, राष्ट्रीय परिवार सहायता योजनातर्गत राशि प्रदाय, रेशम विभाग के हितग्राहियों को 100 नग टसर बुनियादी रीलिंग मशीन, महिला रेशम कृमिपालन समूह को चेक वितरण, कृषि विभाग के हितग्राहियों को उड़द बीज, स्पेयर पंप, स्प्रिंकलर, श्रम विभाग के हितग्राहियों को भागिनी प्रसूति सहायता योजना और मुख्यमंत्री नोनी सशक्तिकरण सहायता योजना में सहायता राशि के चेक, मुख्यमंत्री सिलाई मशीन सहायता योजना, मुख्यमंत्री निर्माण श्रमिक मृत्यु एवं दिव्यांगजन सहायता योजना के चेक एवं 26 हितग्राहियों को वनाधिकार पत्र का वितरण किया। मुख्यमंत्री बघेल ने नारायणपुर जिले जिन विकास कार्यों का लोकार्पण किया, उनमें ब्रेहबेड़ा से मेटाडोंगरी वृहद पुल निर्माण लागत सात करोड़ 67 लाख रुपये, जिला नारायणपुर में सर्किट हाउस का निर्माण कार्य लागत पांच करोड़ 89 लाख रुपये, सुलेंगा से तिरकानार पांच करोड़ 50 लाख रुपये, नारायणपुर में जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान प्रशासनिक एकेडमिक भवन निर्माण लागत पांच करोड़ 55 लाख रुपये, प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क विकास अभिकरण अंतर्गत ग्राम महिमागवाड़ी से ताडोनार तक सड़क निर्माण लागत तीन करोड़ 20 लाख रुपये, स्कूलपारा से कोहकापारा लागत तीन करोड़ 33 लाख रुपये, नयापारा कुकड़ाझोर से खासपारा के लिए लागत तीन करोड़ 35 लाख रुपये सहित अन्य विकास कार्य शामिल है। इसी तरह मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने नारायणुर जिले में लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के अंतर्गत 24 करोड़ 72 लाख रुपये की लागत से स्थापित होने वाली 36 सोलर आधारित नल-जल योजना, खोडगांव से चिचाडीपारा लागत छह करोड़ 22 लाख रुपये, जल जीवन मिशन अंतर्गत सोलर ड्यूल पंपों की स्थापना कार्य लागत पांच करोड़ रुपये, मढोनार से कावानार लागत तीन करोड़ 82 लाख रुपये, 37 नवीन आंगनबाड़ी भवनों का निर्माण कार्य लागत दो करोड़ पांच लाख रुपये सहित अन्य विकास कार्यों का भूमिपूजन भी किया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  8 April 2022

raipur, want to burn effigies,Congressmen burn leaders, BJP

रायपुर। छत्तीसगढ़ प्रदेश भाजपा किसान मोर्चा में अध्यक्ष श्याम बिहारी जायसवाल ने केंद्रीय मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल का पुतला दहन की भर्त्सना करते हुए गुरुवार देर शाम को एक बयान जारी कर कहा कि कांग्रेस के लोग किसान का पुतला फूंक रहे हैं। उन्होंने कहा कि केंद्रीय मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल ,राहुल गांधी की तरह हवा हवाई नेता या भूपेश बघेल की तरह जमींदार के बेटे नहीं, बल्कि खेत में पसीना बहाने वाले साधारण किसान के बेटे हैं। वे किसान के नाम पर भूपेश बघेल जैसी घटिया राजनीति नहीं करते। सामान्य किसान परिवार से होने के कारण वे यह बखूबी जानते हैं कि किसान का भला कैसे हो सकता है और किसान का दर्द क्या होता है।   जायसवाल ने कहा कि केंद्रीय योजनाओं के धन को पलीता लगाकर भूपेश बघेल जो राजनीतिक चालबाजियां कर रहे हैं, उससे किसानों का कोई भला नहीं हो रहा। किसानों को मिलने वाली सारी की सारी सब्सिडी भूपेश बघेल की सरकार ने बंद कर रखी है। किसानों को जो मिल रहा है, उससे कई गुना भूपेश बघेल ने उनसे छीन लिया है।   प्रदेश भाजपा किसान मोर्चा अध्यक्ष जायसवाल ने कहा कि पुतला फूंकना है तो कांग्रेसी अपने नेताओं का फूंकें, जिन्होंने किसानों को खुदकुशी करने छोड़ दिया है। कांग्रेस ने किसानों को बरगलाया और सब्जबाग दिखाकर सत्ता पर काबिज हो गई। सत्ता हासिल करने के बाद कांग्रेस ने किसानों के साथ धोखा किया है। हर साल देर से धान खरीद की जा रही है। धान खरीदी से बचने हर बार बहानेबाजी की जा रही है। किसान का धान खरीद केंद्र तक पहुंचने के पहले रास्ते में वसूली होती है। किसान का धान खरीदने में आनाकानी की जाती है। ज्यादा धान तौलवाकर उन्हें लूटा जाता है। फसल बर्बाद होने पर उन्हें उचित मुआवजा नहीं मिलता। फसल बीमा की रकम में गोलमाल होता है, तब ये कांग्रेसी किस कोने में दुबक जाते हैं। उन्हें पुतला फूंकने का इतना ही शौक है तो किसानों को छलने वाले अपने सीएम का पुतला फूंक लें।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  8 April 2022

raipur, Engineers , monitor water tanks, capital

रायपुर। रायपुर नगर निगम द्वारा शहर के सभी घरों तक पानी पहुंचाने के लिए 14 सदस्यों की मॉनिटरिंग टीम का गठन किया गया है। टीम के सदस्यों को अलग - अलग जलगारों का प्रभार दिया गया है। यह सभी जलगारों में जलभराव से लेकर टेल एरिया के अंतिम घरों पेयजल की सप्लाई पर नजर भी रखा जा रहा है। जलजनित रोगों पीलिया और मलेरिया के मद्देनजर भी पेयजल सप्लाई में विशेष सतर्कता के पानी की नियमित जांच की जाएगी। टुल्लू पम्पों पर भी कारवाई करने के निर्देश दिए गए हैं। महापौर एजाज ढेबर के निर्देश पर कार्यपालन अभियंता बद्री चंद्राकर को शंकर नगर, अवंति विहार, आरके गुप्ता को बैरनबाजार और मोतीबाग, सहायक अभियंता प्रदीप यादव को कबीर नगर, कोटा, जरवाय, नरसिंग फरेंद्र को देवपुरी,लालपुर, अमलीडीह,आशुतोष सिंह को श्यामनगर, कृषि उपज मंडी, पदमाकर श्रीवास को गोगांव,भनपुरी और खमतराई, दिनेश सिन्हा को कचना, आमासिवनी, सडडू, योगेश कड़ू को सरोना, टाटीबंध, शरदचन्द्र ध्रुव को देवेन्द्र नगर, संजय नगर, टैंक नम्बर 4, योगेंद्र कुमार देवांगन को कुशालपुर, डीडी नगर, राजेंद्रनगर,युवराज सिदार को भाठागांव, मठपुरैना, चंगोराभाठा, अनुराग पाटकर को गुढ़ियारी भारत माता, गंज, रमेश पटेल को पुराना ईदगाह भाठा नया ईदगाह भाठा, डंगनिया औरनीतीश झा को मोवा दलदल सिवनी तथा तेलीबांधा जलागरों के प्रभारी बनाए गए हैं। सुबह 6 बजे से ये अपने प्रभार के किसी एक जलागरों का एक जल टँकी रीडिंग सहित 5 क्लोरीन रीडिंग करेंगे। पाइप लाइनों की टेल एंड में जाकर क्लोरीन की मात्रा की जांच करेंगे। क्लोरीन की मात्रा 0.2 से कम पाए जाने पर सम्बंधित जोन के अधिकारियों को बताकर अतिरिक्त क्लोरीनेशन करने हेतु निर्देशित करेंगे। आवश्यकता होने पर टंकियों में अतिरिक्त बूस्टिंग हेतु हाइपोक्लोराइड की डोजिंग कराने की जिम्मेदारी भी इन्हें ही दी गई है। लोगों के घरों तक पानी का प्रेशर कम आने की वजह टुल्लू पम्पों से पानी चोरी करना भी माना जा रहा है। इसके लिए भी विशेष तैयारी कर कार्यवाई करने के निर्देश दिए गए हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 April 2022

raipur, announcement, Chief Minister, the Urban Administration

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा नगर पालिकाओं को अधोसंरचना विकास के लिए पांच करोड़ रुपये और नगर पंचायतों को अधोसंरचना विकास के लिए तीन करोड़ रुपये की राशि उपलब्ध कराने की घोषणा पर नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग द्वारा त्वरित कार्रवाई प्रारंभ कर दी गई है। नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग द्वारा समस्त नगर पालिकाओं और नगर पंचायतों को अधोसंरचना विकास मद में क्रमशः पांच करोड़ रुपये और तीन करोड़ रुपये की वित्तीय स्वीकृति की अनुशंसा करते हुए नगरीय निकायों से इस मद में कराए जाने वाले कार्यों के प्रस्ताव 15 दिनों में विशेष वाहक के माध्यम से भेजने के निर्देश दिए गए हैं। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री बघेल द्वारा 31 मार्च को यह घोषणा की गई थी, जिसके तारतम्य में नगरीय प्रशासन विभाग द्वारा वित्त समिति की 4 अप्रैल को आयोजित बैठक में वित्तीय वर्ष 2021-22 में अधोसंरचना विकास मद में नगर पालिकाओं को पांच करोड़ रुपये तथा नगर पंचायतों को तीन करोड़ रुपये उपलब्ध कराने की अनुशंसा की गई। नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग द्वारा गुरुवार को राजनांदगांव जिले के नगरीय निकायों को छोड़कर अन्य सभी नगर पालिकाओं और नगर पंचायतों को प्रस्ताव भेजने के निर्देश दिए गए हैं।   नगरीय प्रशासन विभाग द्वारा इस संबंध में मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को भेजे गए पत्र में अधोसंरचना विकास के कार्यो के प्रस्ताव में मुख्यमंत्री, विभागीय मंत्री की घोषणा के अनुरूप कराए जाने वाले कार्यो, सड़क मरम्मत, अनुरक्षण, नवीन सड़क निर्माण, नाला-नाली निर्माण, पुल-पुलिया निर्माण, वंचित क्षेत्रों में अधोसंरचना मद अंतर्गत सड़क, नाली के निर्माण, वंचित क्षेत्रों में पाइप लाईन के माध्यम से पेयजल वितरण के प्रस्ताव, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति क्षेत्रों में 30 प्रतिशत की राशि के कार्यो के प्रस्ताव और स्ट्रीट लाईट के प्रस्ताव शामिल करने के निर्देश दिए गए हैं। मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को प्रस्तावों के संबंध में तकनीकी स्वीकृति, पीआईसी, परिषद् का संकल्प तथा कार्य हेतु प्रस्तावित स्थल के फोटोग्राफस 15 दिनों में नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग के संचालनालय में विशेष वाहक के माध्यम से भेजने को कहा गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 April 2022

raipur, Order issued, not to fail students , Chhattisgarh

रायपुर। छत्तीसगढ़ शिक्षा विभाग ने बच्चों के परीक्षा परिणाम को लेकर बड़ा फैसला लिया है। कक्षा पहली से 8वीं तक के विद्यार्थियों को फेल नहीं करने के निर्देश दिए हैं। यह निर्देश लोक शिक्षण संचालनालय द्वारा गुरुवार की देर शाम को जारी किया गया। विद्यार्थियों को आगे की कक्षा में प्रवेश देने के निर्देश दिए गए हैं। सभी जिला शिक्षा अधिकारी, संभागीय संयुक्त संचालक को आदेश जारी किया गया। उल्लेखनीय है कि 15 अप्रैल के बाद छात्रों की उपस्थिति अनिवार्य नहीं होगी। एक मई से आगामी शिक्षा सत्र के अतिरिक्त कार्य शैक्षणिक कार्य प्रारंभ किये जाएंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 April 2022

raipur, Health Minister, TS Singhdev ,reached District Hospital, Kabirdham

रायपुर/कबीरधाम। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव गुरुवार को जिला चिकित्सालय, कबीरधाम पहुंचे। यहां स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने विश्व स्वास्थ्य दिवस के अवसर पर अस्पताल परिसर में पौधारोपण कर चिकित्सालय में कार्यरत अधिकारियों व कर्मचारियों को शुभकामनाएं व्यक्त की। इसके उपरांत स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने प्रसूता माताओं से भेंटकर उन्हें महतारी किट प्रदान किए और अस्पताल परिसर में निरीक्षण करते हुए स्वास्थ्य सुविधाओं का अवलोकन किया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 April 2022

raipur, Chhattisgarh High Court ,stayed late night , Municipal Corporation

रायपुर।रायपुर के कैलाशपुरी में एक निर्माण हटाने को लेकर नगर निगम की कार्रवाई पर छत्तीसगढ़ हाई कोर्ट ने रोक लगा दी है। इस संबंध में पीड़ितों की ओर से लगाई गई याचिका की बिलासपुर हाईकोर्ट में मंगलवार की रात अर्जेंट सुनवाई हुई । देर रात के समय हाईकोर्ट ने नगर निगम की कार्रवाई को रोकने का निर्देश दिया।मामले की अगली सुनवाई गुरुवार को होगी। हाईकोर्ट में यह मामला 2016 से चल रहा है इस मामले में हाईकोर्ट में पहले सीमांकन करने और उसके बाद कोई कदम उठाने का आदेश दिया था. इस आदेश के होते हुए भी निर्माण हटाने की कार्यवाही की जा रही थी जिसे रोकने के लिए याचिकाकर्ता की तरफ से अधिवक्ता शांतम अवस्थी ,प्रांजल शुक्ला और अनिकेत वर्मा ने पैरवी की।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 April 2022

raipur,Government employees

रायपुर।राज्य के शासकीय कर्मचारियों एवं पेंशनरों को 17 प्रतिशत महंगाई भत्ता एरियर्स सहित तथा सांतवे वेतनमान के आधार पर, गृहभाड़ा -भत्ता की दो सूत्रीय मांग को लेकर आगामी 11अप्रैल से13 अप्रैल तक ,महंगाई भत्ता संघर्ष मोर्चा के बैनर पर प्रदेश व्यापी हड़ताल रहेगी। संग़ठन के प्रान्तीय महामंत्री दीपक देवांगन ने बताया कि केंद्र की मोदी सरकार के साथ -साथ राजस्थान की गहलोत सरकार एवं महाराष्ट्र की उद्धव सरकार अपने कर्मचारियो को 34 प्रतिशत महँगाई भत्ता दे रही है। तब छत्तीसगगढ़ की भूपेश सरकार किस आधार पर राज्य के कर्मचारियों एवं पेंशनरों को 17 प्रतिशत डी. ए. दे रही है। जबकि बजट सत्र में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल विधानसभा में घोषणा कर चुके हैं कि छत्तीसगढ़ की जी डी पी केंद्र की जीडीपी से 3 प्रतिशत ज्यादा है तथा प्रदेश पर कर्जा अन्य राज्यो की तुलना में कम है एवं आर्थिक स्थिति अच्छी है। राज्य की आर्थिक स्थिति अच्छी होने के कारण मुख्यमंत्री ने पंचायत के सरपंच से लेकर जिलापंचायत अध्यक्ष तक तथा नगरीय निकाय के वार्ड पार्षद से लेकर महापौर तक के मानदेय में हाल ही में दोगुनी वृद्धि की है ।   उन्होंने आक्रोश व्यक्त किया कि इन परिस्थितिओं में लंबित 17प्रतिशत से कम डी ए पर सरकार का आभार व्यक्त करना कर्मचारियो के साथ छल है ।सरकार अब तक कर्मचारियो के डीए एरियर्स का हजारो करोड़ रुपए खा गई है।राज्य के कर्मचारियों का प्रतिमाह औसतन चार हजार से अठारह हजार रुपए सिर्फ डी ए की आर्थिक क्षति हो रही है ।सातवें वेतनमान के आधार पर गृह भाड़ा भत्ता में औसतन प्रतिमाह दो हजार से आठ हजार रुपये का नुकसान हो रहा हैं।   आव्हान करने वालों में संघ के प्रांत अध्यक्ष डॉ जितेंद्र सिंह ठाकुर, कार्यकारी प्रांत अध्यक्ष हरीश कवर, उप प्रांताअध्यक्ष अरुण चोरिया, प्रांतीय महामंत्री दीपक देवांगन, प्रांतीय सचिव गंभीर नेताम, प्रांतीय कोषाध्यक्ष रामाधार साहू, प्रांतीय प्रवक्ता रूपेंद्र कुमार साहू, प्रांतीय संगठन सचिव वीरेंद्र सिंह राठौर, प्रांतीय प्रचार सचिव द्वारिका वस्त्र कार,चतुर्थ श्रेणी अध्यक्ष मधुकर सिंह ठाकुर आदि कर्मचारियों तथा पदाधिकारियों ने ने हड़ताल को सफल बनाने का आह्वान किया है।   प्रान्तीय महामंत्री दीपक देवांगन ने प्रदेश के सभी कर्मचारी से अपील किया है कि महँगाई भत्ता की लड़ाई स्वयम के अधिकार एवं हक की लड़ाई है इस लिये सभी कर्मचारी स्व प्रेरित होकर11 अप्रैल से13अप्रैल तक तीन दिन का आकस्मिक अवकाश लेकर हड़ताल को सफल बनायें ।यह हड़ताल पूरे प्रदेश में है इसलिये सभी जिला के कर्मचारी अपने अपने जिला मुख्यालय में सुबह ग्यारह बजे से तीन बजे तक पंडाल लगाकर धरना प्रदर्शन करेंगे ।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 April 2022

raipur, Inauguration works, Ram Van Gaman, tourism circuit

रायपुर। छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा राम वन गमन पथ से जुड़े ऐतिहासिक, पुरातात्विक एवं धार्मिक महत्व के स्थलों को सुव्यवस्थित और पर्यटन की दृष्टि से विकसित करने के लिए राम वन गमन परिपथ परियोजना तैयार की गई है। इसके तहत प्रथम चरण में 75 स्थानों का चिन्हांकन कर 9 प्रमुख स्थलों को विकसित किया जा रहा है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आगामी 10 अप्रैल को जांजगीर जिले के शिवरीनारायण प्रवास के दौरान वहां राम वन गमन परिपथ के अंतर्गत निर्मित विभिन्न कार्यों का लोकार्पण करेंगे। राम वन गमन परिपथ के तहत शिवरीनारायण में निर्माणाधीन विभिन्न विकास कार्यों का जायजा सोमवार शाम को संस्कृति विभाग के सचिव अन्बलगन पी. ने लिया। उन्होंने इस संबंध में जिला कलेक्टर और निर्माण कार्यों से जुड़े विभिन्न विभागों के अधिकारियों की बैठक ली और निर्माणाधीन कार्यों को जल्द पूर्ण करने के निर्देश दिए। अन्बलगन ने शिवरीनारायण में रामायण मंडलियों के राज्य स्तरीय मानस गायन प्रतियोगिता की रूपरेखा तैयार करने के संबंध में आवश्यक निर्देश दिए। बैठक की अध्यक्षता महंत राम सुंदर दास ने की। कार्यक्रम की तैयारियों को लेकर उन्होंने कहा कि इस राज्य स्तरीय प्रतियोगिता के लिए देश-प्रदेश के प्रतिष्ठित कलाकार भी शामिल होंगे। इस अवसर पर आयोजन स्थल पर बैठक, पंडाल, पेयजल, पार्किंग आदि की बेहतर व्यवस्था होनी चाहिए। बैठक में कलेक्टर जांजगीर-चांपा जितेंद्र कुमार शुक्ला, एसपी जांजगीर अभिषेक पल्लव, प्रबंध संचालक छत्तीसगढ़ टूरिज्म बोर्ड अनिल कुमार साहू, संचालक संस्कृति एवं पुरातत्व विवेक आचार्य, राम वन गमन पर्यटन परिपथ की नोडल अधिकारी अनुराधा दुबे समेत अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 April 2022

raipur, Rajiv Gandhi,Kisan Nyay Yojana, 5553 crore eight lakh payment

रायपुर। कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने कहा है कि राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत राज्य के 20 लाख 58 हजार किसानों को कृषि आदान सहायता के रूप में चार किस्तों में कुल 5553 करोड़ आठ लाख रुपये का भुगतान किया गया है । उन्होंने योजना के चौथी किस्त में कटौती की बात को बेबुनियाद बताते हुए कहा है कि योजना के तहत खरीफ वर्ष 2020 के पंजीकृत कृषकों को यह आदान सहायता नौ हजार रुपये प्रति एकड़ के मान से दी गई है ,जो कि योजना प्रावधान के तहत है। कृषि मंत्री ने कहा कि खरीफ वर्ष 2020 में प्रति एकड़ 15 क्विंटल के मान से कुल 92.56 लाख मैट्रिक टन धान की खरीद की गई थी। उपार्जित धान का रकबा 61लाख 70 हजार 88 एकड़ था। प्रथम तीन किस्त के रूप में 4523.77 करोड़ रुपये का भुगतान किया गया था तथा चौथी किस्त के रूप में 1029.31करोड़ रुपये का भुगतान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 31 मार्च को किया था । मंत्री चौबे ने कहा कि उपार्जित धान का रकबा 61लाख हजार 88 एकड़ प्रति एकड़ 9000 रुपये के मान से चार किश्तों में 5553 करोड़ आठ लाख रुपये किसानों के बैंक खाते में अंतरित किए गए। कृषि मंत्री ने कहा कि राजीव गांधी किसान न्याय योजना राज्य में वर्ष 2019 से लागू की गई है। इसके तहत खरीफ वर्ष 2019 और खरीफ वर्ष 2020 के अंतर्गत राज्य के किसानों को दो सालों में आदान सहायता के रूप में 11 हजार 180 करोड़ 97 लाख रुपये की आदान सहायता सीधे उनके बैंक खातों में जारी की गई है । उल्लेखनीय है कि खरीफ 2021 में धान के समर्थन मूल्य मोटा एवं पतला का कमश राशि रु. 1940 एवं 1960 प्रति क्विंटल घोषित किया गया है। राजीव गांधी किसान न्याय योजना अंतर्गत 9000 प्रति एकड़ के आधार पर 600 प्रति क्विंटल अतिरिक्त राशि योजनांतर्गत वित्तीय वर्ष 2022-23 में देय होगा। इस प्रकार धान बोने वाले किसानों को समर्थन मूल्य सहित क्रमशः रुपये 2540 एवं 2560 प्रति क्विंटल भुगतान प्राप्त होगा। वित्तीय वर्ष 2022-23 में राजीव गांधी किसान न्याय योजनांतर्गत कृषकों को लगभग 7000 करोड़ से अधिक राशि का भुगतान किया जाना संभावित है। इस तरह किसानों को धान के साथ-साथ दलहन-तिलहन, साग-सब्जी तथा वृक्षारोपण करने वाले किसानों को भी अतिरिक्त आय प्राप्त होने से प्रदेश के किसान आर्थिक रूप से मजबूत होंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 April 2022

raipur, Instructions , strictly stop, arbitrary fees

रायपुर।निजी स्कूलों के द्वारा ली जा रही मनमानी फीस पर कड़ाई से रोक लगाने के लिए राज्य शासन द्वारा राज्य के सभी कलेक्टरों को जिला स्तरीय फीस विनियमन समितियों का गठन करने और छत्तीसगढ़ अशासकीय विद्यालय फीस विनियमन अधिनियम-2020 के प्रावधानों का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं। प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा डॉ. आलोक शुक्ला ने कलेक्टरों से कहा है कि वे अपने जिले के सभी निजी स्कूलों के फीस के संबंध में जानकारी प्राप्त करके अधिनियम के प्रावधानों के अंतर्गत आवश्यक कार्यवाही करें। जिससे निजी विद्यालयों द्वारा अनियंत्रित तरीके से फीस न बढ़ाई जाए एवं पालकों को कठिनाई का सामना न करना पड़े। कलेक्टरों को संदर्भित पत्रों के साथ अधिनियम तथा अधिनियम के अंतर्गत बनाए गए अधिनियमों की छायाप्रति भी भेजी है। प्रमुख सचिव डॉ. शुक्ला ने कलेक्टरों को जारी पत्र में कहा गया है कि विभिन्न स्रोतों से ऐसी जानकारी मिली है कि अशासकीय विद्यालयों द्वारा अधिनियम के प्रावधानों का पालन किए बिना अपनी फीस में असाधारण रूप से वृद्धि की गई है, जिसके कारण पालकों को कठिनाई का समाना करना पड़ रहा है। उन्होंने जिला कलेक्टरों को अधिनियम की धारा-10 की उपधारा-8 की ओर ध्यान आकर्षित करते हुए कहा है कि इसमें यह प्रावधान है कि विद्यालय फीस समिति द्वारा एक बार में अधिकतम 8 प्रतिशत की वृद्धि की जा सकती है। इससे अधिक फीस की वृद्धि करने के लिए विद्यालय फीस समिति को अपने प्रस्ताव जिला फीस समिति के समक्ष प्रस्तुत करना होगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 April 2022

raipur, woman , burnt alive , massive fire

रायपुर।छत्तीसगढ़ के जशपुर क्षेत्र में मंगलवार की सुबह लगभग 2 से 3 बजे के बीच, कुनकुरी के बाजारडांड़ में स्थित पूजा प्लाईवुड और मकान में भीषण आग लगने से एक महिला की जिंदा जलकर मौत हो गई। पुलिस और फायरकर्मियों ने जे सी बी से दीवार तोड़कर महिला के शव को बाहर निकाला।आग बुझाने के लिए फायरब्रिगेड के साथ ही करीब 8 टैंकर लगे हुए हैं। सूचना मिलने पर कलेक्टर रितेश अग्रवाल, पुलिस अधीक्षक विजय अग्रवाल और कुनकुरी विधायक यूडी मिंज मौके पर पहुंचे ।मृतक महिला की शिनाख्त रचना बंग (54वर्ष ) पत्नी श्याम सुंदर बंग के रूप में हुई है। दुकान और मकान भी श्याम सुंदर का ही है। आशंका है कि शार्ट सर्किट के चलते आग लगी है। पुलिस अधीक्षक विजय कुमार ने बताया कि कुनकुरी के बाजारडांड़ में स्थित पूजा प्लाईवुड में सुबह अचानक आग लग गई। दुकान संचालक शिव कुमार बंग और उनका परिवार दुकान के उपरी मंजिल में सोया हुआ था । आग के चारों ओर फैल जाने के बाद,हादसे की भनक इस परिवार को मिल पाई। किसी तरह जान बचा कर शिव कुमार बंग स्वजनों सहित नीचे भागे। श्रीमती रचना बंग 58 वर्ष उपर के कमरे में फंस चुकी थी। आग की चपेट में आने से मौके पर ही महिला की मौत हो गई। महिला पैरालिसिस की मरीज थी।उन्होंने बताया कि भड़के हुए आग पर काबू पाने के लिए जशपुर और पत्थलगांव से दमकल वाहन को बुलाया गया। जशपुर से कुनकुरी की दूरी 42 किलोमीटर और पत्थलगांव से 55 किलोमीटर है। सूचना पर जशपुर से दो और पत्थलगांव से दो दमकल वाहन मौके पर पहुंच कर,आग पर काबू पाया। लेकिन इस समय तक दुकान पूरी तरह से जल कर राख हो चुकी थी।हादसे में इस परिवार का कपड़ा दुकान भी जल कर राख हो गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 April 2022

raipur, BJP objected , Khairagarh becoming district, Congress

रायपुर। भाजपा के नेता बृजमोहन अग्रवाल द्वारा खैरागढ़ को जिला बनाये जाने को आचार संहिता को उल्लंघन बताये जाने पर कांग्रेस ने कड़ी आपत्ति व्यक्त किया है। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने सोमवार को बयान जारी कर कहा कि बृजमोहन अग्रवाल के बयान से भाजपा का खैरागढ़ जिला विरोधी चेहरा खुलकर सामने आ गया। भारतीय जनता पार्टी नहीं चाहती कि खैरागढ़, छुईखदान, गंडई जिला बने। इसीलिये भाजपा का हर छोटा बड़ा नेता जिला बनने की बात पर तिलमिला रहा है। उन्होंने कहा कि चुनावी घोषणा पत्र बनाना हर राजनैतिक दल का विशेषाधिकार है। कांग्रेस अपने घोषणा पत्र में जो वायदा किया है उसे पूरा करेगी। 2018 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने अपने जन घोषणा पत्र में जो वायदा किया था कांग्रेस की सरकार ने 90 प्रतिशत वायदों को मात्र सवा तीन साल में पूरा कर दिया है। खैरागढ़ की जनता को भरोसा है उपचुनाव में कांग्रेस ने वायदा किया है कि कांग्रेस उम्मीदवार यशोदा वर्मा के चुनाव जीतने के 24 घंटे के अंदर खैरागढ़, छुईखदान, गंडई जिला बना दिया जायेगा तो कांग्रेस पार्टी इस वायदे को जरूर पूरा करेगी।   धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि खैरागढ़ को लेकर भाजपा के पास कोई विजन नहीं है और न ही भाजपा की विश्वसनीयता बची है। कांग्रेस के घोषणा पत्र पर सवाल खड़ा करने वाले बृजमोहन अग्रवाल बतायें कि 15 साल सरकार रहने के दौरान उन्होंने खैरागढ़ के लिये क्या किया? भाजपा के पास भी खैरागढ़ को जिला बनाने का अवसर 15 साल तक था लेकिन भाजपा खैरागढ़ को जिला नहीं बनाया। भाजपा चाहती तो साल्हेवारा और जालबांधा को तहसील बना सकती थी भाजपा ने नहीं बनाया उनकी नीयत नहीं थी। छत्तीसगढ़ राज्य बनने के बाद 15 सालों तक भाजपा की सरकार रहने का नुकसान खैरागढ़ सहित छत्तीसगढ़ की जनता को उठाना पड़ा है। सत्ता के विकेंद्रीयकरण के जिन उद्देश्यों को लेकर नये राज्य का गठन हुआ भाजपा ने 15 साल तक उसी को रोके रखा। कांग्रेस की सरकार बनने के बाद इसीलिये नये जिलों और तहसीलों का गठन किया जा रहा है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 April 2022

raipur, Ram Van Gaman Path, project work completed

रायपुर। छत्तीसगढ़ शासन की महत्वाकांक्षी राम वन गमन पथ परियोजना के तहत चंदखुरी के बाद अब शिवरीनारायण में भी विकास कार्य पूरा हो गया है। इन विकास कार्यों का लोकार्पण 8 अप्रैल से शुरू हो रहे लोकार्पण समारोह के अंतिम दिन 10 अप्रैल को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा किया जाएगा। शिवरीनारायण राम वन गमन पथ परियोजना के पहले चरण में चिन्हित उन स्थानों में शामिल है, जिन्हें पर्यटन-तीर्थ के रूप में विकसित किया जा रहा है। छत्तीसगढ़ राज्य ऐतिहासिक, पुरातात्विक, धार्मिक और प्राकृतिक धरोहरों के साथ ही गौरवशाली प्राचीन लोक संस्कृति का भी अद्वितीय उदाहरण प्रस्तुत करता है। छत्तीसगढ़ मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम का ननिहाल और उनकी कर्मभूमि भी है। 14 वर्षों के कठिन वनवास काल में श्रीराम ने अधिकांश समय छत्तीसगढ़ में व्यतीत किया था।माता कौशल्या की जन्म भूमि होने के कारण छत्तीसगढ़ में श्री राम को भांजे के रूप में पूजा जाता है। छत्तीसगढ़ में सांस्कृतिक धरोहरों, परंपराओं और रामायण कालीन अवशेषों को सहेजने और संवारने के उद्देश्य से राज्य में चिन्हांकित 75 स्थलों में से प्रथम चरण में 9 स्थानों पर राम वन गमन पर्यटन परिपथ के तहत अधोसंरचना विकास कार्यों, जीर्णोद्धार और सौंदर्यीकरण का कार्य किया जा रहा है। इसी कड़ी में पिछले वर्ष राम नवमी के अवसर पर माता कौशल्या मंदिर परिसर चंदखुरी का लोकार्पण किया गया था। इस वर्ष रामनवमी के अवसर पर 10 अप्रैल को शिवरीनारायण धाम, विष्णु कांक्षी तीर्थ में राम वन गमन पर्यटन परिपथ के विकास कार्यों का लोकार्पण समारोह आयोजित किया जा रहा है। 8, 9 और 10 अप्रैल को तीन दिवसीय भव्य आयोजन में देश-प्रदेश के प्रतिष्ठित कलाकारों द्वारा सांस्कृतिक प्रस्तुतियां दी जाएंगी। साथ ही प्रदेश स्तर पर रामायण मंडलियों की मानस गायन प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है, जिसमे लगभग 7 हज़ार मानस गायकों ने भाग लिया है। इनमें से चयनित 25 जिलों की मानस मंडलियों के लगभग 350 कलाकार शिवरीनारायण में 8,9 और 10 अप्रैल को राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में अपनी प्रस्तुतियां देंगे। 10 अप्रैल को विजेता प्रतिभागियों को पुरस्कार वितरित किए जाएंगे और प्रथम स्थान प्राप्त विजेता दल की प्रस्तुति भी होगी।तीन दिवसीय इस आयोजन में पद्मश्री ममता चंद्राकर, पद्मश्री अनूप जलोटा, जस गीत गायक दिलीप षडंगी, मुंबई की पार्श्व गायिका अनुराधा पौडवाल तथा संगीत विश्वविद्यालय खैरागढ़ के भूतपूर्व छात्र छात्राओं के द्वारा शबरी के जीवन पर आधारित नृत्य नाटिका की प्रस्तुति होगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 April 2022

raipur, Dhebar wrote a letter , request, Chief Minister Baghel

रायपुर। नगर पालिक निगम रायपुर के महापौर एजाज ढेबर रायपुर नगर पालिक निगम क्षेत्र में निरन्तरता से जनसमस्याओं के निदान हेतु सकारात्मक पहल करते आ रहे हैं। महापौर ने नलघर की पुरानी टंकी के समीप स्थित अपने शासकीय आवास में सोमवार सुबह 10 से 11.30 बजे तक डेढ़ घंटे की अवधि के लिये जनहित में जनसुविधा हेतु जनचौपाल का नियमित आयोजन प्रारम्भ किया है। उक्त जनचौपाल आयोजन में महापौर एजाज ढेबर स्वयं सप्ताह में सोमवार, मंगलवार, बुधवार, गुरुवार को चार दिन जनसमस्याओं एवं मांगों से अवगत होकर उनके त्वरित निदान की दृष्टि से उपलब्ध रहते हैं। महापौर ढेबर ने सोमवार को जब जनचौपाल लगायी, तो लगभग 100 से अधिक नागरिकों ने उनसे मिलकर उक्त सकारात्मक पहल को लेकर महापौर की जनहितेषी कार्यप्रणाली को एक बार फिर सराहा। आज जनचौपाल में महापौर ढेबर को लगभग 60 आवेदन प्राप्त हुए, जिसमें मुख्य रूप से अधिकतर लोगों ने महापौर से राजधानी शहर रायपुर नगर निगम क्षेत्र में मकान दिलवाने, स्ट्रीट लाईट लगवाने, बिजली मीटर लगवाने, स्कूल में बच्चों को प्रवेश दिलवाने, आर्थिक सहायता उपलब्ध करवाने सहित रोजगार दिलवाने को लेकर मांग महापौर से की। महापौर ने नागरिकों को रोजगार दिलवाने को लेकर प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को अनुरोध पत्र लिखा है। महापौर ने सभी नागरिकों से उनकी समस्त मांगों एवं समस्याओं को ध्यानपूर्वक सुना एवं प्रक्रिया के तहत नियमानुसार त्वरित निदान करने के सम्बन्ध में कार्य से सम्बंधित विभागीय अधिकारियों को तत्काल निर्देशित किया ।एजाज ढेबर ने कहा कि कोई भी नागरिक जनचौपाल कार्यक्रम में आकर उनसे सीधे मिलकर उन्हें अपनी मांगों एवं समस्याओं से निर्धारित अवधि के दौरान अवगत करवा सकता है। वे सभी मांगों एवं समस्याओं के शीघ्र त्वरित निदान हेतु जनहित एवं जनसुविधा को दृष्टिगत रखते हुए सकारात्मक पहल कर आवश्यक कार्यवाही करवाएंगे। महापौर ढेबर ने कहा कि उनका प्रयास होगा कि समस्या बताने जनचौपाल में आने वाले सभी नागरिकों के चेहरों पर लौटते समय मुस्कान रहे । आज जनचौपाल के दौरान महापौर एजाज ढेबर के साथ मुख्य रूप से नगर पालिक निगम रायपुर के एल्डरमेन अफरोज अंजुम उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 April 2022

raipur, Chhattisgarh tops, states with lowest unemployment, country

रायपुर। सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकॉनॉमी संगठन की तरफ से जारी किये गये बेरोजगारी के नवीनतम आंकड़ों के अनुसार मार्च माह में छत्तीसगढ़ में बेरोजगारी दर अब तक के सबसे न्यूनतम स्तर 0.6 प्रतिशत पर पहुंच गई। सबसे कम बेरोजगारी दर वाले राज्यों में छत्तीसगढ़ देश में अव्वल है। मार्च में ही देश में बेरोजगारी दर 7.5 प्रतिशत रही। आंकड़ों के अनुसार छत्तीसगढ़ 0.6 प्रतिशत के साथ देश में सबसे कम बेरोजगारी दर वाले राज्यों में अव्वल है। दो अप्रैल 2022 की स्थिति में सीएमआईई द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार सर्वाधिक बेरोजगारी दर हरियाणा में 26.7 प्रतिशत, राजस्थान और जम्मू-कश्मीर में 25-25 प्रतिशत, झारखंड में 14.5 प्रतिशत, बिहार में 14.4 प्रतिशत, त्रिपुरा में 14.1प्रतिशत, हिमाचल प्रदेश में 12.1 प्रतिशत रही। छत्तीसगढ़ ने समावेशी विकास का लक्ष्य निर्धारित करते हुए तीन साल पहले महात्मा गांधी के ग्राम स्वराज्य की परिकल्पना के अनुरूप नया मॉडल अपनाया था, जिसके तहत गांवों और शहरों के बीच आर्थिक परस्परता बढ़ाने पर जोर दिया गया है। इसी मॉडल के अंतर्गत गांवों के आर्थिक सशक्तिकरण के लिए सुराजी गांव योजना, नरवा-गरवा-घुरवा-बारी कार्यक्रम, गोधन न्याय योजना, राजीव गांधी किसान न्याय योजना, राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना, रूरल इंडस्ट्रीयल पार्कों की स्थापना, लघु वनोपजों के संग्रहण एवं वैल्यू एडीशन, उद्यमिता विकास जैसी योजनाओं और कार्यक्रमों का क्रियान्वयन किया जा रहा है। इन योजनाओं से राज्य के विकास को गति मिल रही है, जिससे प्रदेश में बेरोजगारी दर में लगातार गिरावट आ रही है। नये आंकड़ों के मुताबिक छत्तीसगढ़ 0.6 प्रतिशत के साथ सबसे कम बेरोजगारी वाले राज्यों में पहले स्थान पर है। छत्तीसगढ़ में आने वाले 05 वर्षों में 12 से 15 लाख रोजगार के नये अवसरों का निर्माण करने के लिए रोजगार मिशन का संचालन किया जा रहा है। नवीनतम रिपोर्ट के अनुसार देश में बेरोजगारी दर 7.5 प्रतिशत है। शहरी बेरोजगारी दर 8.5 प्रतिशत और ग्रामीण बेरोजगारी 7.1 प्रतिशत है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 April 2022

jagadalpur,Chief Minister, released Badal Patrika

जगदलपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दो दिवसीय बस्तर प्रवास के दौरान शनिवार देर शाम को ग्राम आसना स्थित बादल एकेडमी में बादल पत्रिका का विमोचन किया। इस अवसर पर बस्तर अंचल में कृषि कार्य के शुभारंभ के तौर पर माटी त्योहार का आयोजन भी किया गया। मुख्यमंत्री अंचल के इस प्रमुख पर्व में शामिल होते हुए बीज पोटली का वितरण भी ग्रामीणों को किया। इस अवसर पर बादल अकादमी की स्थापना की आवश्यकता तथा माटी त्यौहार पर आधारित नाटक का मंचन भी किया गया। कला, संगीत को आधुनिक रंग दिया जायेगा। बस्तर के उत्पादों, लोक कलाकृतियों, हस्तशिल्प को बाजार प्रदान करने और स्थानीय कलाकारों, रचनाकारो को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री ने स्लो बाजार के साथ दो एमओयू का विनिमय किया। जिसमे प्रथम बस्तर के खाद्य उत्पादों काजू, इमली आदि के वैल्यू एडिशन के लिए आमचो बस्तर, भूमगादी कृषक उत्पादक समूह, और स्लो बाजार के मध्य हुई। दूसरा एमओयू बस्तर के हस्तशिल्प कलाकारों को प्रोत्साहित करने और बाजार प्रदान के लिए स्लो बाजार, कालागुडी और लोका बाजार मध्य की गई। मुख्यमंत्री ने स्लो बाजार बस्तर के उत्पादों को देशव्यापी स्थान प्रदान करने में अपना अमूल्य योगदान प्रदान करने वाले रचनाकारों को प्रेरित करने के लिए 1000 क्रिएटर्स प्रोजेक्ट की शुरुआत बकावंड ब्लॉक के ग्राम चिलपुटी के ढोकरा हस्तशिल्पी फगनू दादा को सम्मानित कर किया। इसके साथ ही उन्होंने Óबस्तर इन ए बॉक्सÓ का अनावरण किया, जिसमे ग्रामीण सहायता समूहों द्वारा निर्मित बस्तर की कॉफी, इमली चटनी, काजू, बेल मेटल हस्तशिल्प, टेराकोटा हस्तशिल्प और साबुन हैं। इस अवसर पर उद्योग मंत्री कवासी लखमा, सांसद दीपक बैज, बस्तर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष लखेश्वर बघेल, संसदीय सचिव रेखचंद जैन, हस्तशिल्प विकास बोर्ड के अध्यक्ष चंदन कश्यप, विधायक राजमन बेंजाम, अक्षय ऊर्जा विकास बोर्ड के अध्यक्ष मिथलेश स्वर्णकार, महापौर सफीरा साहू, कमिश्नर श्याम धावड़े, पुलिस महानिरीक्षक सुंदरराज पी, मुख्य वन संरक्षक मोहम्मद शाहिद, कलेक्टर रजत बंसल, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जितेन्द्र मीणा, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी रोहित व्यास, वन मंडलाधिकारी डीपी साहू सहित जनप्रतिनिधिगण उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 April 2022

raipur,Governor Uike, left for Delhi , Chandigarh stay

रायपुर। राज्यपाल अनुसुईया उइक तीन से आठ अप्रैल तक अपने दिल्ली व चंडीगढ़ प्रवास के लिए रविवार को राजभवन से रवाना हुई। अपने चंडीगढ़ प्रवास के दौरान राज्यपाल चार अप्रैल को पंजाब विश्वविद्यालय के डॉ. हरवंश सिंह जज दंत चिकित्सा महाविद्यालय के तत्वावधान में आयोजित व्हाईट कोट सेरेमनी में शामिल होंगी। तत्पश्चात राजयपाल उइके दिल्ली प्रवास पर रहेंगीं, जहां वे गणमान्य नागरिकों से मुलाकात करेंगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 April 2022

raipur, Chief Minister Baghel, inaugurated,a Nehru Memorial Garden

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दो दिवसीय बस्तर प्रवास के दौरान शनिवार की देर शाम जगदलपुर में लालबाग के निकट नेहरु स्मृति उद्यान का शुभारंभ किया। इस अवसर पर उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरु की आदमकद प्रतिमा का अनावरण किया। इस अवसर पर उद्योग मंत्री कवासी लखमा, सांसद दीपक बैज, संसदीय सचिव रेखचंद जैन, हस्तशिल्प विकास बोर्ड के अध्यक्ष चंदन कश्यप, अक्षय ऊर्जा विकास बोर्ड के अध्यक्ष मिथलेश स्वर्णकार, मछुआ कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष एमआर निषाद, महापौर सफीरा साहू, नगर निगम सभापति कविता साहू,कमिश्नर श्याम धावड़े, पुलिस महानिरीक्षक सुंदरराज पी, मुख्य वन संरक्षक मोहम्मद शाहिद, कलेक्टर रजत बंसल, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जितेन्द्र मीणा, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी रोहित व्यास, सहित जनप्रतिनिधिगण उपस्थित थे। मुख्यमंत्री बघेल को परिसर की पूरी जानकारी स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम स्कूल की कक्षा 11वीं में अध्ययनरत आकांक्षा कुमारी ने दी। उसी स्कूल की छात्रा जेनीफर एक्का ने पंडित नेहरू की लिखी किताब विश्व इतिहास की झलक भेंट में दी। उल्लेखनीय है कि नेहरू मेमोरियल पार्क का निर्माण उस स्थल पर किया गया है जहां स्थित मंच से देश के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू ने तृतीय राष्ट्रीय आदिवासी सम्मेलन को संबोधित किया था। 13 से 15 मार्च 1955 को आयोजित तीन दिवसीय इस सम्मेलन के उद्घाटन अवसर पर पंडित नेहरू यहां आए थे। लालबाग मैदान के सामने सड़क के दूसरे छोर में नक्षत्र वाटिका के समीप नेहरू मेमोरियल का निर्माण किया गया है। लगभग पौन एकड़ क्षेत्र में विस्तारित मेमोरियल पार्क में पंडित नेहरू की आदमकद प्रतिमा स्थापित की गई है। यहां लगाए गए पांच पत्थरों में नेहरू के जीवन से संबंधित जानकारी दी गई है। इस परिसर को लगभग एक करोड़ 50 लाख की लागत से जीर्णोद्धार किया गया है ।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 April 2022

raipur,Chit fund ,company

रायपुर। चिटफंड कंपनी बीएनपी इंडिया इंश्योरेंस ऐंड इन्वेस्टमेंट इंडिया लिमिटेड की संपत्ति कुर्क की जाएगी। संपत्ति का वर्तमान बाजार भाव मूल्यांकन 6 करोड़ 31 लाख 96 हजार 813 रुपये किया गया है। जिला दंडाधिकारी और कलेक्टर सौरभ कुमार ने गुरुवार देरशाम इस संबंध में आदेश जारी कर दिया। अब चिटफंड कंपनी की रायपुर जिले के अभनपुर तहसील के ग्राम छछानपैरी स्थित 9.14 हेक्टेयर भूमि और रायपुर शहर के टिकरापारा स्थित साढ़े 12 हजार वर्गफीट हाॅल को कुर्क किया जाएगा। निवेशकों के साथ धोखाधड़ी के आरोप में कंपनी के डायरेक्टर राघवेन्द्र सिंह नरवरिया और दयानंद लोधी गिरफ्तार किए जा चुके हैं। पुलिस को पांच अन्य भूमिगत आरोपितों की तलाश है। इन सभी के खिलाफ गरियाबंद जिले के इंदा गांव थाने में विभिन्न धाराओं में अपराध पंजीबद्ध है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 April 2022

raipur, Chief Minister ,bows to Mandraji , Bisahu Das Mahant

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शुक्रवार को अपने निवास कार्यालय में लोककला ‘नाचा‘ के जनक माने जाने वाले स्वर्गीय दाऊ दुलार सिंह मंदराजी एवँ स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्वर्गीय बिसाहू दास महंत की जयंती पर उनके चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें नमन किया । मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ी लोककला के संरक्षण में दाऊ जी के अमूल्य योगदान को याद करते हुए कहा कि दाऊ मंदराजी ने ‘नाचा‘ को पुनर्जीवित करने और उसे बचाए रखने के लिए अपना पूरा जीवन समर्पित कर दिया। उन्होंने नाचा को समाजिक कुरीतियों के प्रति जनचेतना जगाने का माध्यम बनाया। बघेल ने कहा कि दाऊ जी ने लोक कलाकारों को संगठित कर छत्तीसगढ़ी नाचा-गम्मत को विश्वपटल पर स्थापित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। राज्य सरकार द्वारा कला के ऐसे सच्चे साधक के सम्मान और नाचा कला को अक्षुण्ण बनाए रखने के लिए दाऊ दुलार सिंह मंदराजी सम्मान दिया जाता है। उन्होंने कहा कि लोगों में नाचा कला को पुनर्स्थापित करने वाले लोक कलाकार का व्यक्तित्व अगली कई पीढ़ियों को प्रेरित करता रहेगा।   मुख्यमंत्री बघेल ने स्वतंत्रता संग्राम सेनानी और लोकप्रिय राजनेता स्वर्गीय बिसाहू दास महन्त को स्मरण करते हुए कहा कि उनका पूरा जीवन जनसेवा से जुड़ा रहा। महन्त ने अविभाजित मध्यप्रदेश में विधायक तथा मंत्री के रूप में प्रदेश के विकास के लिए अपनी अमूल्य सेवाएं दी। हसदेव बांगो सिंचाई परियोजना उनके सपनों का साकार रूप है। उन्होंने लोगों की बेहतरी के लिए क्षेत्र में खेती-किसानी, सिंचाई तथा सड़कों के कार्यों को बखूबी अंजाम दिया। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि स्वर्गीय बिसाहू दास महन्त के आदर्शों के अनुरूप नवा छत्तीसगढ़ के निर्माण के लिए राज्य सरकार संकल्पबद्ध हैं। उनके बताये जनकल्याण के मार्ग पर चलकर प्रदेश में विकास को नये आयाम देने की दिशा में कार्य किए जा रहे हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 April 2022

raipur, Forest department,activated ,extinguish forest fire

रायपुर। वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री मोहम्मद अकबर के मार्गदर्शन में विभाग द्वारा प्रदेश के वन क्षेत्रों में अग्नि से सुरक्षा हेतु निरंतर निगरानी रखी जा रही है। इस तारतम्य में विगत दिवस मुख्य वन संरक्षक सरगुजा अनुराग श्रीवास्तव के नेतृत्व में वन मंडलाधिकारियों के साथ वन क्षेत्र का सघन भ्रमण कर मौके पर जंगल में लगी आग को बुझाने में स्वयं दल के साथ जुटे रहे। साथ ही वन क्षेत्रों में अग्नि सुरक्षा हेतु आवश्यक समझाइश भी दी जा रही है। ग्रामीणों को महुआ एकत्र करने के दौरान आग न लगाने की समझाइश मुख्य वन संरक्षक श्रीवास्तव के दल द्वारा विगत दिवस सरगुजा के लुण्ड्रा परिक्षेत्र के हाथी प्रभावित क्षेत्र का निरीक्षण किया गया। वहां महुआ एकत्र कर रहे ग्रामीणों को वनों में आग न लगाने की समझाइश दी गई। इसके पश्चात बलरामपुर के राजपुर परिक्षेत्र में लगी आग को दल द्वारा तत्परता से पहल करते हुए आग को बुझाया गया। इस दौरान डीएफओ सरगुजा पंकज कमल तथा डीएफओ बलरामपुर विवेकानंद झा भी उपस्थित थे। मुख्य वन संरक्षक श्रीवास्तव द्वारा वन क्षेत्र में भ्रमण के दौरान रामानुजगंज रोपनी का भी निरीक्षण किया गया और वहां विभागीय अमले को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए। उल्लेखनीय है कि वन विभाग द्वारा वनों की अग्नि से सुरक्षा हेतु किए गए प्रबंध के तहत प्रधान मुख्य वन संरक्षक कार्यालय अरण्य भवन रायपुर में कन्ट्रोल रूम मंह टॉल फ्री नम्बर 18002337000 स्थापित किया गया है, जिस पर कोई भी व्यक्ति अग्नि घटनाओं की सूचना दे सकते हैं। इसी तरह समस्त वनमंडलों में भी वनमंडल कार्यालयों में अग्नि सुरक्षा हेतु कन्ट्रोल रूम स्थापित किया गया है, जहां से अग्नि घटनाओं की सतत् निगरानी की जा रही है। वन विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार अग्नि सीजन 15 फरवरी से प्रारंभ हो गया है तथा 15 जून 2022 तक वनों को अग्नि से बचाना विभाग की प्राथमिकता में है। अग्नि से जहां एक ओर प्राकृतिक पुनरूत्पादन के पौधे नष्ट हो जाते हैं वहीं दूसरी ओर वृक्षों की काष्ठ की गुणवत्ता भी प्रभावित होती है। अतएव वनों को अग्नि से बचाव अत्यंत आवश्यक है। अग्नि सुरक्षा हेतु समस्त वनमंडलों में अग्नि रेखाओं की कटाई, सफाई, जलाई की जा चुकी है। वन क्षेत्रों में अग्नि से सुरक्षा हेतु कैम्पा मद से समस्त बीटो में एक-एक अग्नि रक्षक की नियुक्ति की गई है। वनों में लगने वाली आग को बुझाने हेतु कर्मचारियों को आधुनिक उपकरण फायर ब्लोअर उपलब्ध कराया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 April 2022

raipur, Congress

रायपुर।केंद्र सरकार के खिलाफ महंगाई मुक्त भारत अभियान में गुरुवार को छत्तीसगढ़ के प्रभारी पीएल पुनिया, प्रभारी सचिव सप्तगिरी शंकर उल्का, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम 11 बजे राजीव गांधी चौक नेताजी सुभाष स्टेडियम के पास आयोजित प्रदर्शन में शामिल हुए। सुबह 11 बजे कांग्रेस के सभी पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं ने गैस सिलिंडर और चूल्हा घरों के बाहर रखकर घंटी और ड्रम बजाकर केंद्र सरकार को कथित तौर पर जगाने के लिए प्रदर्शन किया । कांग्रेस पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। कई स्थानों पर ढोल -नगाड़े बजाकर भी विरोध दर्ज कराया गया। रायपुर में पीएल पुनिया घरेलू गैस सिलेंडर के बीच बैठे और हाथ में अंधेर नगरी चौपट राजा, पोस्टर लहराते रहे ।यह प्रदर्शन प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों में हो रहा है। खैरागढ़ रवाना होने से पहले हेलीपैड पर पत्रकारों से चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि पांच राज्यों के चुनावों तक पेट्रोल, डीजल व रसोई गैस की कीमतों में वृद्धि नहीं हुई। जैसे ही चुनाव खत्म हुए, सबके दाम में भारी वृद्धि हो रही है। बघेल ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में क्रूड आयल की कीमत में कमी आई है, तो फिर महंगाई क्यों बढ़ रही है, यह सवाल है। कांग्रेस के प्रदेश कार्यालय राजीव भवन में पत्रकारों से चर्चा में पुनिया ने कहा कि मोदी सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर एक्साइज ड्यूटी ज्यादा लगा दी है, जिसकी वजह से दाम बढ़ रहे हैं। पिछले आठ साल में केंद्र सरकार ने सिर्फ पेट्रोलियम पदार्थों पर लगी एक्साइज ड्यूटी से 26 लाख करोड़ रुपये वसूल किए हैं।पुनिया ने इस मौके पर कहा छत्तीसगढ़ में हर जिले में ये विरोध प्रदर्शन हो रहा है। पिछले कुछ समय में पेट्रोल, डीजल और घरेलू गैस सिलेंडर के दाम बढ़ गए हैं। कांग्रेस महंगाई मुक्त भारत अभियान चला रही है। साल 2014 में जब केंद्र में कांग्रेस की सरकार थी तो पेट्रोल 71 रुपए और डीजल 50 रुपए के आस-पास मिलता था। अब दोनों के दाम 100 और 90 के पार जा चुके हैं।यह अभियान 2 से 4 अप्रैल जिला स्तर और 7 अप्रैल को प्रदेश स्तर पर भी चलाया जाएगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 March 2022

raipur, Appointment , Director of Social Audit Unit , State Government

रायपुर। छत्तीसगढ़ शासन द्वारा पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अंतर्गत मनरेगा (महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम) एवं अन्य योजनाओं में सामाजिक अंकेक्षण कार्यों के संपादन के लिए मनोज कुमार तिवारी को सामाजिक अंकेक्षण इकाई का संचालक नियुक्त किया गया है। पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग द्वारा मंत्रालय (महानदी भवन) से इस संबंध में आदेश जारी किया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 March 2022

raipur, fire , pandri police station, premises

रायपुर। रायपुर के पंडरी थाना परिसर में जब्त कर रखे गए गाड़ियों में गुरुवार को अचानक आग लग गई। आग लगने की खबर से थाना परिसर में हड़कंप मच गया, आग बुझाने की कोशिश की जा रही है। मौके पर दमकल की टीम पहुंच गई है। बताया जा रहा है कि थाना में जब्त गाड़ियों में अचानक आग लग गई है। जिसमें करीबन दस से अधिक गाड़ी जलकर राख हो गई हैं, वहीं थाना स्टाॅफ समेत दमकल कर्मी आग बुझाने में जुटे हैं। आग पर काबू पाने का पूरा प्रयास किया जा रहा है। फिलहाल, आगजनी का कारण अज्ञात है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 March 2022

raipur, Take the message ,Jyotiba and Savitri Bai Phule ,Chief Minister

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से बुधवार शाम को यहां उनके निवास कार्यालय में सुखदेव पटेल के नेतृत्व में मरार पटेल समाज के प्रतिनिधिमंडल ने सौजन्य मुलाकात की। प्रतिनिधिमंडल ने समाज सुधारक सावित्रीबाई फूले की जीवनी स्कूलों के पाठ्यक्रम में शामिल कराने और राजनांदगांव जिले के गंडई में मरार समाज के भवन के लिए एक एकड़ भूमि तथा सामाजिक भवन निर्माण के लिए 50 लाख रुपये स्वीकृति के लिए आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर मरार समाज के लोगों ने मुख्यमंत्री को सम्मानित भी किया। मरार समाज के प्रतिनिधिमंडल को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि ज्योतिबा फूले एवं सावित्रीबाई फूले ने समाज में शिक्षा का अलख जगाया और लोगों को शिक्षा के प्रति जागरूक किया। शिक्षा के क्षेत्र में उनके किए गए कार्य सभी समाजों के लिए प्रेरणा स्त्रोत है। बघेल ने कहा कि उन्हें इस वर्ष ज्योतिबा फूले सम्मान से सम्मानित किया गया। यह उनके लिए सबसे बड़ा सम्मान है। हम सबको ज्योतिबा फूले एवं सावित्रीबाई फूले के संदेश को घर-घर तक पहुंचाना है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार समाज के कमजोर वर्ग तथा किसानों तथा श्रमिकों के सशक्तिकरण के लिए कार्य कर रही है। इसी कड़ी में आज 31 मार्च को राजीव गांधी किसान न्याय योजना की चौथी किस्त, राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना की दूसरी किस्त तथा तेदूपत्ता संग्रहकों को बीमा राशि प्रदान की जाएगी। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ देश में पहला ऐसा राज्य है गोबर खरीद की योजना शुरू की। अब गोबर खरीद के बाद गोमूत्र भी खरीदने जा रहे हैं। इस अवसर पर शाकम्भरी बोर्ड के अध्यक्ष रामकुमार पटेल, राजनांदगांव जिला केन्द्रीय सहकारी बैंक के अध्यक्ष नवाज खान सहित समाज के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 March 2022

raipur, National Cooperative Conference, on 25th April

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में राष्ट्रीय सहकारी सम्मेलन 25 अप्रैल को आयोजित किया जाएगा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा इस सम्मेलन के लिए सहमति प्रदान कर दी गई है। राष्ट्रीय सम्मेलन में देशभर के चुनिंदा शीर्ष सहकारी संस्थाओं के प्रतिनिधि शामिल होंगे। सम्मेलन का आयोजन रायपुर के दीनदयाल आडिटोरियम, साइंस कॉलेज के पास रायपुर में होगा। राष्ट्रीय सहकारी सम्मेलन की तैयारियों के संबंध में बुधवार शाम को प्रारंभिक बैठक आयोजित की गई। बैठक में रायपुर ग्रामीण विधायक सत्यनारायण शर्मा, अपेक्स बैंक के अध्यक्ष बैजनाथ चन्द्राकर, अध्यक्ष जिला सहकारी केंद्रीय बैंक पंकज शर्मा, अध्यक्ष जिला सहकारी केंद्रीय बैंक बिलासपुर प्रमोद नायक, अध्यक्ष जिला सहकारी केंद्रीय बैंक दुर्ग जवाहर वर्मा, मुख्य कार्यपालन अधिकारी रायपुर एस.के.जोशी, जिला सहकारी केंद्रीय बैंक रायपुर के अतिरिक्त महाप्रबंधक एस.पी. चन्द्राकर, अपेक्स बैंक के डीजीएम भूपेश चन्द्रवंशी, एजीएम एल.के. चौधरी, शाखा प्रबंधक शारदा चौक सी.पी. व्यास, शाखा प्रबंधक पंडरी अजय भगत, प्रबंधक अभिषेक तिवारी, जहीर कुरैशी, लेखाधिकारी प्रभाकरकांत यादव एवं अन्य अधिकारीगण मौजूद थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 March 2022

raipur, MNREGA workers , Rs 204 per day as wages

रायपुर। मनरेगा (महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम) श्रमिकों को 1 अप्रैल 2022 से प्रतिदिन 204 रुपये की मजदूरी मिलेगी। केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा मनरेगा के अंतर्गत वित्तीय वर्ष 2022-23 के लिए राज्यवार प्रतिदिन मजदूरी की दर का राजपत्र में प्रकाशन कर दिया गया है। ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा चालू वित्तीय वर्ष 2021-22मनरेगा के तहत काम करने वाले अकुशल हस्त कर्मकारों हेतु छत्तीसगढ़ के लिए 204 रुपये प्रतिदिन की मजदूरी तय की गई है। यह नई दर 1 अप्रैल 2022 से प्रभावी होंगी। केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा चालू वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए 193 रुपये मजदूरी दर निर्धारित थी। आगामी वित्तीय वर्ष के लिए इसमें 11 रूपए की बढ़ोतरी की गई है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 March 2022

raipur,Chief Minister ,l release crores , animal husbandry

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 31 मार्च को अपने निवास कार्यालय में गोधन न्याय योजना के राशि अंतरण कार्यक्रम के तहत पशुपालक ग्रामीणों, गौठानों से जुड़ी महिला समूहों और गौठान समितियों को 13 करोड़ 62 लाख रुपये की राशि ऑनलाइन जारी करेंगे, जिसमें एक मार्च से 28 मार्च तक राज्य के गौठानों में पशुपालक ग्रामीणों, किसानों, भूमिहीनों से गोधन न्याय योजना के तहत क्रय किए गए गोबर के एवज में 3.78 करोड़ रुपये भुगतान तथा गौठान समितियों को 5.85 करोड़ और महिला समूहों को 3.99 करोड़ रुपये की लाभांश राशि शामिल हैं। यहां यह उल्लेखनीय है कि गोधन न्याय योजना के तहत गौठानों में ग्रामीणों से दो रुपये की दर से गोबर की खरीद की जा रही है। गौठानों में 28 फरवरी तक खरीदे गए 64.92 लाख क्विंटल गोबर के एवज में गोबर बेचने वाले ग्रामीणों को 129.86 करोड़ रुपये का भुगतान भी किया जा चुका है। 31 मार्च को गोबर विक्रेताओं को 3.78 करोड़ रुपये का भुगतान होने के बाद यह आंकड़ा बढ़कर 133.64 करोड़ रुपये हो जाएगा। गौठानों में महिला समूहों द्वारा गोधन न्याय योजना के अंतर्गत क्रय गोबर से बड़े पैमाने पर वर्मी कम्पोस्ट, सुपर कम्पोस्ट, सुपर कम्पोस्ट प्लस एवं अन्य उत्पाद तैयार किया जा रहा है। महिला समूहों द्वारा 12 लाख 45 हजार क्विंटल वर्मी कम्पोस्ट तथा चार लाख 77 हजार क्विंटल से अधिक सुपर कम्पोस्ट एवं 17 हजार 368 क्विंटल सुपर कम्पोस्ट प्लस खाद का निर्माण किया जा चुका है, जिसे सोसायटियों के माध्यम से शासन के विभिन्न विभागों एवं किसानों को रियायती दर पर प्रदाय किया जा रहा है। महिला समूह गोबर से खाद के अलावा गो-कास्ट, दीया, अगरबत्ती, मूर्तियां एवं अन्य सामग्री का निर्माण एवं विक्रय कर लाभ अर्जित कर रही हैं। गौठानों में महिला समूहों द्वारा इसके अलावा सब्जी एवं मशरूम का उत्पादन, मुर्गी, बकरी, मछली पालन एवं पशुपालन के साथ-साथ अन्य आय मूलक विभिन्न गतिविधियों का संचालन किया जा रहा है, जिससे महिला समूहों को अब तक 58 करोड़ 44 लाख रुपये की आय हो चुकी हैं। राज्य में गौठानों से 11,693 महिला स्व सहायता समूह सीधे जुड़े हैं, जिनकी सदस्य संख्या 78298 है। राज्य में अब तक 10,591 गांवों में गौठानों के निर्माण की स्वीकृति दी गई है, जिसमें से 8366 गौठान निर्मित एवं संचालित हैं। जिसमें से 3006 गौठान आज की स्थिति में स्वावलंबी हो चुके हैं। स्वावलंबी गौठानों में अब तक स्वयं की राशि से 13 करोड़ 18 लाख रुपये का गोबर क्रय किया है। गोधन न्याय योजना से दो लाख 11 हजार से अधिक ग्रामीण, पशुपालक किसान लाभान्वित हो रहे हैं। गोबर बेचकर अतिरिक्त आय अर्जित करने वालों में 45 प्रतिशत संख्या महिलाओं की है। इस योजना से एक लाख 12 हजार से अधिक भूमिहीन परिवार लाभान्वित हो रहे हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 March 2022

raipur,Khadi  idea ,not a cloth, Chief Minister Baghel

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि खादी कपड़ा नहीं बल्कि एक विचार है। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने खादी को आजादी की लड़ाई का एक अस्त्र के रूप में इस्तेमाल किया था। महात्मा गांधी ग्राम स्वराज की कल्पना करते हुए वे चाहते थे कि हमारे गांव हर तरह से ताकतवर बनें। हम भी महात्मा गांधी की राह पर चलते हुए कारीगरों, बुनकरों, शिल्पियों का कौशल निखार रहे हैं। हर गांव एक उत्पादक और शहर विक्रय केन्द्र बनें। उन्होंने कहा कि हमारा प्रयास है कि गांव स्वावलंबी और प्रदेश के लोग आत्मनिर्भर बनें। मुख्यमंत्री ने इस आशय के विचार मंगलवार की देर शाम पण्डरी छत्तीसगढ़ हाट बाजार में आयोजित 10 दिवसीय राज्य स्तरीय खादी तथा ग्रामोद्योग प्रदर्शनी में व्यक्त किए। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाले बुनकरों और शिल्पकारों को सम्मानित किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि महात्मा गांधी की परिकल्पना के अनुरूप छत्तीसगढ़ में ग्राम स्वराज के सपने को साकार करने के लिए सुराजी गांव योजना लागू की गई। इस योजना के अंतर्गत गांव-गांव गौठान का निर्माण कर उन्हें ग्रामीण औद्योगिक पार्क के रूप में विकसित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि ग्रामीण औद्योगिक पार्कों में छोटे-छोटे उद्यम स्थापित कर बुनकरों, शिल्पकारों, कारीगरों को रोजगार के बेहतर मौके दिए जा रहे हैं। उनके काम को निखारा जा रहा है और उन्हें बाजार की मांग के अनुरूप उत्पादन के लिए प्रशिक्षित किया जा रहा है। इसके लिए बजट में 600 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। जिससे यहां सर्वप्रथम पानी और बिजली की व्यवस्था की जाएगी। उन्होंने कहा कि व्यापारी यहां के कास्तकारों को कच्चा माल उपलब्ध कराएं। शासन द्वारा यहां कार्य करने वालों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। कारीगर व्यापारी की डिजाइन अनुसार सामग्री तैयार कर उपलब्ध कराएंगे। इससे प्रदेश के लोगों को रोजगार उपलब्ध होगा और वे आर्थिक रूप से समृद्ध होंगे। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि नवा रायपुर में वर्धा के सेवाग्राम की तर्ज पर सेवा ग्राम की स्थापना की जा रही है। यहां बुनकरों, शिल्पकारों और कारीगरों को अपने व्यापार को बढ़ाने का प्रशिक्षण दिया जाएगा। यह केन्द्र खादी के विकसित रूप में सामने आएगा और इस क्षेत्र में कार्य करने वाले को समृद्धि की ओर आगे बढ़ाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में इस वर्ष मुख्यमंत्री रेशम परियोजना शुरू की गई है। इस योजनांतर्गत एक हजार महिलाओं को चिन्हिंत कर उन्हें कोकून से धागाकरण का प्रशिक्षण दिया जाएगा। इस कार्य से यहां काम करने वाले महिलाओं को प्रति माह 6 से 7 हजार रुपये की आय होगी। उन्होंने कहा कि आगामी वित्तीय वर्ष में रेशम परियोजना को आगे बढ़ाने के लिए रैली कोकून बैंक की स्थापना की जाएगी। प्रारंभ में 200 स्व-सहायता समूह को धागाकरण का प्रशिक्षण देकर कार्य सौंपा जाएगा।   मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में 10 हजार 500 से अधिक गौठानों के निर्माण की स्वीकृति दी जा चुकी है, जिनमें से 8 हजार 500 से अधिक का निर्माण पूरा हो चुका है। यही गौठान रूरल इंडस्ट्रीयल पार्क के रूप में विकसित होंगे।   कार्यक्रम को ग्रामोद्योग मंत्री गुरू रूद्रकुमार, खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड के अध्यक्ष राजेन्द्र तिवारी, मुख्यमंत्री के सलाहकार प्रदीप शर्मा ने भी सम्बोधित किया। इस अवसर पर विधायक सत्यनारायण शर्मा, कुलदीप जुनेजा, महापौर एजाज ढेबर, अध्यक्ष अल्पसंख्यक आयोग महेन्द्र छाबड़ा, अध्यक्ष रायपुर विकास प्राधिकरण सुभाष धुप्पड़, माटीकला बोर्ड के अध्यक्ष बालम चक्रधारी सहित प्रमुख सचिव ग्रामोद्योग डॉ. आलोक शुक्ला, प्रबंध संचालक खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड रेखा शुक्ला और खादी आयोग के सदस्य सहित अन्य जनप्रतिनिधि और बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 March 2022

raipur, Many trains canceled ,nfrastructure development works

रायपुर।रेलवे के अलग-अलग सेक्शन में अधोसंरचना विकास तथा संरक्षण संबंधी कार्यों के चलते कई यात्री गाड़ियों को एक माह या उससे अधिक समय के लिए रद्द किया गया है। इनमें अधिकांश कटनी जबलपुर रूट की है। इनमें अंबिकापुर से जबलपुर को चलने वाली ट्रेन भी शामिल है। रेलवे की ओर से मंगलवार को दी गई जानकारी के अनुसार 28 मार्च से 3 मई 2022 तक बिलासपुर भोपाल के बीच चलने वाली दोनों ओर की एक्सप्रेस ट्रेन रद्द की गई हैं । 29 मार्च से 4 मई तक रीवा बिलासपुर रीवा एक्सप्रेस ट्रेन दोनों ओर से रद्द रहेगी। बिलासपुर से अब 4 मई को रीवा के लिए एक्सप्रेस रवाना होगी।29 मार्च से 4 मई तक अंबिकापुर -जबलपुर एक्सप्रेस तथा 28 मार्च से 3 मई तक जबलपुर -अंबिकापुर एक्सप्रेस रद्द की गई है। 28 मार्च 4, 11, 18, 25 अप्रैल व 2 मई को नांदेड़ से रवाना होने वाली संतरागाछी एक्सप्रेस रद्द रहेगी। 30 मार्च, 6 अप्रैल, 13 अप्रैल, 20 अप्रैल, 27 अप्रैल और 4 मई को संतरागाछी से नांदेड के लिए एक्सप्रेस रवाना नहीं होगी।30 मार्च, 6 अप्रैल, 13 व 27 अप्रैल को रानी कमलापति हबीबगंज स्टेशन से संतरागाछी एक्सप्रेस रवाना नहीं होगी।31 मार्च, 7 अप्रैल, 14, 21 व 28 अप्रैल को संतरागाछी से रवाना होने वाली रानी कमलापति हबीबगंज एक्सप्रेस रद्द रहेगी।28 मार्च से 3 मई तक गेवरा इतवारी एक्सप्रेस गेवरा और कोरबा के बीच रद्द रहेगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 March 2022

raipur, Two DRG jawans, injured in IED blast

रायपुर। छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित नारायणपुर जिले के झारावाही के जंगल में मंगलवार की सुबह करीब 9.15 बजे नक्सलियों के आईईडी ब्लास्ट में डीआरजी के दो जवान घायल हो गए हैं। इनमें से एक की हालत गंभीर बनी हुई है। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नीरज चंद्राकर ने आईईडी ब्लास्ट की पुष्टि की है। बस्तर आईजी सुंदरराज पी ने बताया कि नारायणपुर जिले के कुरुसनार थाना व कैंप से आईटीबीपी व डिस्ट्रिक्ट रिजर्व गार्ड (डीआरजी) के जवानों का संयुक्त दल कोडोली और झारावाही के जंगल की ओर रवाना हुआ था। दल में कुछ जवान बाइक पर थे, जबकि कुछ पैदल जंगल की सर्चिंग कर रहे थे। तभी सुबह करीब सवा नौ बजे नक्सलियों ने सीरियल आईईडी ब्लास्ट कर दिया जिसमें मोटर साइकिल पर सवार दो जवान सनाऊ वड्डे व रामजी पोटाई घायल हो गए। रामजी पोटाई की आंख में और सनाऊ के बाएं हाथ में चोट आई है। उन्हें समुचित उपचार के लिए रायपुर रवाना किया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 March 2022

raipur, Devotee Mata ,Karma Jayanti

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सोमवार की देर शाम साहू समाज की आराध्य देवी शिरोमणि भक्त माता कर्मा जयंती के अवसर पर रायपुर स्थित अपने निवास कार्यालय में भक्त माता कर्मा की विधिवत पूजा-अर्चना कर राज्य की खुशहाली और समृद्धि की कामना की। इस अवसर पर उद्योग मंत्री कवासी लखमा, अन्य पिछड़ा वर्ग प्राधिकरण के अध्यक्ष दलेश्वर साहू, खुज्जी विधायक छन्नी साहू, तेलघानी बोर्ड के अध्यक्ष संदीप साहू सहित साहू समाज के कई पदाधिकारियों ने भक्त माता कर्मा की पूजा-अर्चना में शामिल हुए। साहू समाज के पदाधिकारियों ने भक्त माता कर्मा जयंती के अवसर पर मुख्यमंत्री द्वारा शासकीय अवकाश घोषित किए जाने के लिए उनका आभार जताया और कहा कि इससे जयंती पर्व का मान बढ़ा है। भक्त माता की जयंती के कार्यक्रमों में लोगों की सहभागिता बढ़ी है। पूरा साहू समाज इसको लेकर हर्षित है। उन्होंने बताया कि राज्य में इस साल भक्त माता कर्मा जयंती धूमधाम से मनाई गई और शोभायात्रा-कलश यात्रा भी निकाली गई। मुख्यमंत्री बघेल को साहू समाज के पदाधिकारियों ने भक्त माता कर्मा की प्रतिमा भेंट की। मुख्यमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ में साहू समाज सहित सभी समाजों द्वारा भक्त माता कर्मा जयंती का बड़े उत्साह और श्रद्धा के साथ मनाया जाता है। लोगों की आस्था का सम्मान करते हुए राज्य सरकार ने भक्त माता कर्मा जयंती पर सार्वजनिक अवकाश घोषित किया है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि राजिम में मेला स्थल का सुव्यवस्थित विकास का काम कराया जा रहा है। इससे श्रद्धालुओं को सुविधा होगी। साहू समाज के पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री से साहू समाज की पूजनीय विभूतियों के संबंध में विस्तार से चर्चा की। बघेल ने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार सभी समाज और वर्गों की सहभागिता उनके तीज-त्यौहार, पर्व और धार्मिक आस्थाओं का मान और सम्मान के लिए लगातार काम कर रही है। उन्होंने साहू समाज के पदाधिकारियों से छत्तीसगढ़ में खेती-किसानी को समृद्ध बनाने तथा किसानों की स्थिति में बदलाव के लिए संचालित योजनाओं, विशेषकर राजीव गांधी किसान न्याय योजना, गोधन न्याय योजना के संबंध में विस्तार से चर्चा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में पशुधन के संरक्षण और संवर्धन के लिए गांवों में गौठानों का निर्माण किया जा रहा है। गौठान वास्तव में गांव की संपत्ति है। इसका बेहतर संचालन और यहां पर आर्थिक गतिविधियों को बढ़ाने की जिम्मेदारी गांव वालों की है। उन्होंने राज्य में जैविक खेती को बढ़ावा देने के लिए गौठानों में उत्पादित वर्मी कम्पोस्ट का ज्यादा से ज्यादा खेती में उपयोग करने की अपील की। तेलघानी बोर्ड की गतिविधियों के विस्तार के संबंध में भी साहू समाज के पदाधिकारियों से मुख्यमंत्री ने चर्चा की। इस अवसर पर कमलकिशोर साहू, डीडी साहू, हेमंत साहू, नीरा साहू, अंजोर साहू, अमरनाथ साहू, बुद्धेश्वर साहू, मोतीलाल साहू सहित साहू समाज के अन्य पदाधिकारी मौजूद थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 March 2022

raipur, May all sisters , strong and set , example, Governor

रायपुर। राज्यपाल अनुसुईया उइके सोमवार की शाम को रायपुर जिले के तिल्दा स्थित एमिटी विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित बी. डी. एस. पी. क्षमता निर्माण कार्यक्रम में शामिल हुई। इस दौरान राज्यपाल उइके ने दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम की विधिवत शुरुआत की। उल्लेखनीय है कि एमिटी विश्वविद्यालय को व्यवसाय विकास सहायता प्रदाता नियुक्त किया गया है, जिसके तहत परिसर में प्रदेश के विभिन्न जिलों से आई स्व सहायता समूह की 230 महिलाएं कौशल विकास का प्रशिक्षण प्राप्त कर रही है। राज्यपाल उइके ने अपने संबोधन में प्रशिक्षण प्राप्त कर रही बहनों से कहा कि आप सभी सशक्त बनें और दूसरों के लिए मिसाल कायम करें। पिछले कुछ वर्षों में तकनीक व नवाचार के क्षेत्र में महिलाओं की भागीदारी बढ़ी है तथा उद्यमी के रूप में भी अपनी सशक्त उपस्थिति दर्ज कराई है। एक समय था जब माना जाता था कि महिलाएं केवल सिलाई एवं बुनाई ही कर सकती है। लेकिन अब महिलाएं सभी क्षेत्रों में नेतृत्व कर रही हैं। आप सभी ने जो प्रशिक्षण प्राप्त किया है, उसको स्वयं तक सीमित न रखें बल्कि अन्य महिलाओं को भी जानकारी देकर प्रोत्साहित करें। उन्हें शासकीय योजनाओं के बारे में बताएं ताकि वे उसका लाभ लेकर आगे बढ़ पाएं। राज्यपाल ने कहा कि इस प्रकार के प्रशिक्षण कार्यक्रम से जनजाति बाहुल्य और असीम संभावनाओं वाले इस प्रदेश की महिलाओं का कौशल उन्नयन होगा और वे आर्थिक रूप से सक्षम होंगी। प्रदेश में कई उत्पाद जैसे बेल धातु, वनौषधियां, बांस व लकड़ी से बने वस्तुओं की वैश्विक बाजार में काफी मांग है और जनजातीय समाज इससे सीधे जुड़ाव के कारण उन्हें आजीविका के साथ अच्छी आमदनी भी प्राप्त हो रही है। प्रदेश में राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन ‘बिहान’ महिलाओं को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने की एक अच्छी पहल है, जिसके तत्वावधान में महिलाएं प्रशिक्षण प्राप्त कर रही हैं। प्रशिक्षण से बस्तर, सरगुजा, राजनांदगांव तथा रायपुर के 230 महिलाएं अपने कौशल एवं व्यावसायिक क्षेत्र में पारंगत होंगी तथा प्रदेश व अपने परिवार के विकास में बराबर की भागीदार बनेंगी। इस अवसर पर विश्वविद्यालय के कुलाधिपति डॉ. विलियम्स सेल्वामूर्ति ने भी महिलाओं के प्रशिक्षण और विश्वविद्यालयीन गतिविधियों के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि महिलाओं का उत्साह ही परिवर्तन का सूचक है। आपको जो प्रशिक्षण मिला है, वह आपके सपनों को जरूर पूरा करेगा। इस दौरान राज्यपाल उइके को विश्वविद्यालय प्रशासन ने स्मृति चिन्ह भेंटकर सम्मानित किया। कार्यक्रम में विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. राजेन्द्र पाण्डेय, बी.डी.एस.पी. कार्यक्रम संयोजक सत्येन्द्र पटनायक सहित प्राध्यापक, विद्यार्थीगण और स्वसहायता समूह की प्रशिक्षु महिलाएं उपस्थित थी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 March 2022

raipur, Can

रायपुर। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि चिट्टियां लिखना प्रदेश की कांग्रेस सरकार की आदत बन चुकी है। जीएसटी काउंसिल के सदस्यों को पत्र लिखकर एवं केन्द्र सरकार पर हमेशा आरोप लगाना कांग्रेस की आदत बन गई है। जब जीएसटी कांउसिल में यह निर्णय हुआ कि राज्यों को 5 साल की क्षतिपूर्ति मिलेगी तब उस काउंसिल में आए सभी दल एवं राज्य के सदस्यों ने अपनी सहमति दी तो प्रदेश की सरकार अब राजनीतिक नौटंकी क्यों कर रही है। एक तरफ प्रदेश सरकार कहती रही कि छत्तीसगढ़ की अर्थव्यवस्था देश की अर्थव्यवस्था से बेहतर है, यहां के लोगों की वार्षिक आय देश की औसत आय से ज्यादा है, यहां पर कोरोना का प्रभाव बिलकुल नहीं पड़ा यहां की ग्रामीण अर्थव्यवस्था पूरे देश से अच्छी है तो प्रदेश के मुख्यमंत्री पैसा मांगने के लिए बार-बार चिट्ठी क्यों लिखते है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार कर्ज और केन्द्र सरकार के भरोसे पर चलना चाहती है क्योंकि कर्ज तो बहुत मिला रहा है केन्द्र सरकार से भी बहुत पैसा राज्य को मिल रहा है। वर्तमान बजट में केन्द्र सरकार ने 8 हजार करोड़ रुपए केवल पूंजीेगत व्यय के लिए देना तय किया है। केन्द्र सरकार ने राज्य सरकार को आय से अधिक पैसा दिया। जो पहले 32 फीसदी मिलता था मोदी सरकार में 42 फीसदी मिल रहा है। यूपीए शासन में जो पैसा मिलता था उससे 178 फीसदी पैसा अधिक मिल रहा है, ग्रांट प्रतिवर्ष 9 प्रतिशत बढ़ाकर मिल रहा है। नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने कहा कि केन्द्र सरकार हमेशा सहायता करती है और इतना पैसा दे रही है उसे जनता तक भी नहीं पहुंचा पर रही है। केन्द्र सरकार के भरोसे राज्य नहीं चलाना चाहिए बल्कि अपने दम पर राज्य चलाना चाहिए। लेकिन प्रदेश की कांग्रेस सरकार कुछ न करके केवल चिट्ठी लिखकर अपनी जिम्मेदारी से भागने का काम करते है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 March 2022

raipur, Inflation at its peak, elections of five states,Mohan Markam

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने सोमवार को बयान जारी कर कहा कि भारत की जनता को केंद्र सरकार ने धोखा दिया है और ठगा है। लोगों के वोट हासिल करने के पहले पेट्रोल, डीजल, गैस सिलेंडर, पाइप्ड नेचुरल गैस (पीएनजी) और सीएनजी की कीमत पांच राज्यों के चुनाव तक नहीं बढ़ी लेकिन चुनाव समाप्त होने के बाद पिछला एक सप्ताह हर घर के बजट के लिए एक बुरा सपना रहा है। पेट्रोल और डीजल की कीमतों में हर दिन वृद्धि और गैस सिलेंडर, पीएनजी और सीएनजी की कीमतों में बेतहाशा बढ़ोतरी से आम आदमी परेशान है। चुनाव में वोट हासिल करने के लिये भाजपा ने महंगाई पर नियंत्रण रखा, चुनाव जीतने के बाद मोदी और भाजपा को जनता की परवाह नहीं है। मोहन मरकाम ने कहा कि केंद्र के जनविरोधी रवैये के खिलाफ कांग्रेस द्वारा पेट्रोल, डीजल, गैस, घरेलू सामान जैसी आवश्यक वस्तुओं की लगातार बढ़ती महंगाई के विरोध में केंद्र सरकार के खिलाफ ‘‘महंगाई मुक्त भारत अभियान’’ 31 मार्च से तीन चरणों में चलायी जायेगी। 31 मार्च को 11 बजे कांग्रेस के सभी पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता गैस सिलेंडर और चूल्हे घर के बाहर रखकर घंटी और ड्रम बजाकर कुंभकर्णी निद्रा में सोई गूंगी बहरी केंद्र सरकार को जगाने के लिये प्रदर्शन करेंगे। महंगाई मुक्त भारत अभियान का दूसरा चरण 2 अप्रैल से 4 अप्रैल के बीच होगा। इसके तहत सोशल मीडिया अभियान- 31 मार्च को प्रातः 11 बजे प्रदेश के वरिष्ठ नेता, पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता गण स्थानीय स्तर पर अपने घर, सार्वजनिक स्थलों पर गैस सिलेंडर, डीजल, पेट्रोल के कीमतों में भारी वृद्धि के खिलाफ बहरी भाजपा, मोदी सरकार का ध्यान आकृष्ट कराते हुये उक्त कार्यवाही का वीडियो, फोटोग्राफ बनाकर विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर पोस्ट करेंगे। 2 से 4 अप्रैल के बीच प्रदेश के समस्त जिला मुख्यालयों में महंगाई मुक्त भारत अभियान के तहत एक दिवसीय धरना का आयोजन किया जायेगा, जिसमें स्थानीय पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं सहित आम जनता की भागीदारी सुनिश्चित किया जायेगा। 7 अप्रैल को राजधानी रायपुर में प्रदेश के कांग्रेस मोर्चा संगठन, प्रकोष्ठ विभाग, श्रमिक संगठन, यूनियन एवं विभिन्न सामाजिक संगठनों के साथ महंगाई मुक्त भारत धरना, प्रदर्शन का आयोजन किया जायेगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 March 2022

raipur, Bhupesh Baghel, letter to Chief Ministers ,17 states

रायपुर। केंद्र सरकार द्वारा जून 2022 के बाद से राज्यों को जीएसटी क्षति पूर्ति की राशि न देने के निर्णय पर आज मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 17 राज्यों के मुख्यमंत्रियों को पत्र लिखा है। उन्होंने पत्र के माध्यम से केंद्र के इस निर्णय से राज्यों को होने वाली हानि पर चर्चा की है। मुख्यमंत्री बघेल ने उड़ीसा, मध्यप्रदेश, उत्तरप्रदेश, गुजरात, झारखंड, राजस्थान, पंजाब, बिहार, पश्चिम बंगाल, हरियाणा, आंध्रप्रदेश, हैदराबाद, तमिलनाडु, कर्नाटक, केरल, तेलंगाना और दिल्ली जैसे राज्यों के मुख्यमंत्रियों को पत्र भेजा है। इस पत्र में बघेल ने 17 राज्यों के मुख्यमंत्रियों से केंद्र सरकार से क्षतिपूर्ति दस वर्ष तक जारी रखने का साझा आग्रह करने का अनुरोध किया है, ताकि राज्यों के राजस्व को भारी हानि होने से बचाया जा सके और जीएसटी क्षतिपूर्ति जारी रखने अन्यथा वैकल्पिक व्यवस्था बनाई जा सके। उपरोक्त सूचना छत्तीसगढ़ शासन ने 28 मार्च सोमवार को जारी की है।   मुख्यमंत्री बघेल ने इसमें राज्यों के मुख्यमंत्रियों से चर्चा करते हुए तीन बिंदुओं में अपनी बात रखी है, जिसमें उन्होंने कहा है कि केंद्रीय वित्त मंत्री की अध्यक्षता में 29 दिसंबर, 2021 को नई दिल्ली में राज्यों के मुख्यमंत्रियों और वित्त मंत्रियों के साथ बजट-पूर्व बैठक में छत्तीसगढ़ सहित अन्य राज्यों ने जून 2022 में समाप्त होने वाले जीएसटी मुआवजे पर चिंता व्यक्त की थी और केंद्र सरकार से इसे और 5 साल के लिए बढ़ाने का अनुरोध किया, जबकि इस मामले में सभी राज्य केंद्र सरकार से सकारात्मक निर्णय की उम्मीद रखते हैं।   दूसरे बिंदु में उन्होंने कहा है कि छत्तीसगढ़ और आंध्र प्रदेश जैसे मैन्युफैक्चरिंग राज्यों के लिए जीएसटी क्षतिपूर्ति नहीं मिलना एक बड़ा वित्तीय नुकसान होगा। विनिर्माण राज्य होने के नाते, देश की अर्थव्यवस्था के विकास में हमारा योगदान उन राज्यों की तुलना में बहुत अधिक है, जिन्हें वस्तुओं और सेवाओं की अधिक खपत के कारण जीएसटी शासन से लाभ हुआ है। यदि जीएसटी क्षतिपूर्ति जून 2022 से आगे जारी नहीं रखा गया, तो छत्तीसगढ़ को भारी राजस्व नुकसान का सामना करना पड़ सकता है। आगामी वित्तीय वर्ष में लगभग 5,000 करोड़ का नुकसान हो सकता है। ठीक इसी तरह दूसरे राज्यों को भो आगामी वित्तीय वर्ष में राजस्व प्राप्तियां कम होगी।और राज्यों को इस समस्या से जनहित के कार्यों और विकास कार्यों के लिए पैसों की व्यवस्था करना बहुत कठिन हो जाएगा।   तीसरे बिंदु में बघेल ने बताया है कि जीएसटी व्यवस्था की शुरुआत के बाद टैक्स नीति पर राज्यों की स्वतंत्रता बहुत कम हो गई है। वाणिज्यिक टैक्स के अलावा, राज्यों के पास टैक्स राजस्व की अन्य मदों में राजस्व बढ़ाने के लिए विकल्प नहीं बचे हैं। इसलिए, अर्थव्यवस्था पर कोविड-19 के दुष्प्रभाव से उबरने के लिए और राज्यों को जीएसटी का यथोचित लाभ मिलने तक, राज्यों को केंद्र सरकार से अनुरोध करना चाहिए कि वह कम से कम अगले 5 साल के लिए जीएसटी की कमी के लिए क्षतिपूर्ति के मौजूदा तंत्र को जारी रखे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने विश्वास जताया कि राज्य उनकी बात से सहमत होंगे और एक साथ इस मुद्दे पर केंद्र से सहमति का साझा अनुरोध करेंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 March 2022

raipur,Chief Minister ,attends ,Bhakt Mata Karma Jayanti ,celebrations

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल रविवार को रायपुर के कृष्णा नगर स्थित कर्मा धाम में आयोजित भक्त माता कर्मा जयंती समारोह में शामिल हुए। मुख्यमंत्री ने वहां भक्त माता कर्मा मंदिर में पूजा- अर्चना कर प्रदेश की सुख-समृद्धि और खुशहाली की कामना की। इस अवसर पर उन्होंने माता कर्मा धाम के ऑडिटोरियम का भूमि पूजन और शिलान्यास किया और परिसर में रुद्राक्ष का पौधा भी रोपा। गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू, लोकसभा सांसद सुनील सोनी, राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग के अध्यक्ष थानेश्वर साहू, तेलघानी बोर्ड के अध्यक्ष संदीप साहू, छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी दुग्ध महासंघ के अध्यक्ष विपिन साहू, छत्तीसगढ़ पर्यटन मंडल की उपाध्यक्ष चित्ररेखा साहू, जिला साहू समाज के अध्यक्ष मेघराज साहू सहित अनेक जनप्रतिनिधि, साहू समाज के पदाधिकारी और सदस्य इस अवसर पर उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  27 March 2022

raipur,CM Baghel , stunned after, seeing Mahua bean

रायपुर। छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित दंतेवाडा से एक बहुत ही खूबसूरत वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। जहां एक बुजुर्ग महिला के साथ सेना के जवान महुआ बिनते नजर आ रहे है। देखा जाए तो ऐसा नजारा आज के समय में बहुत ही कम देखने को मिलता है। इस तरीके का नजारा देखकर इंसान भावुक हो जाता है। बस्तर के घने जंगल जो नक्सलवाद के लिए जाने जाते हैं वहां ऐसा नजारा इंसान के दिल को छूता है, और ऐसे ही वाक्यों को बढ़ावा देने के लिए हमें प्रोत्साहन मिलता है।   उल्लेखनीय है कि इस वीडियो को एक महिला ने अपने ट्विटर पर अपलोड करते हुए कैप्शन में लिखा है कि बस्तर से बेहद खूबसूरत नजारा सामने आया। जिसमें सुरक्षा, सहयोग, भरोसा देखने को मिल रहा है। दंतेवाड़ा जिले में डीआरजी के जवान गश्त से लौटते वक्त जंगल में महुआ बिन रही महिला व बच्ची का सहयोग करते हुए खुद भी महुआ बिनने लगे और महुआ को कांवड़ में लाद कर महिला के घर भी पहुंचाया। इस वीडियो पर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी खुशी से गदगद होकर ट्वीट करते हुए लिखा, विश्वास और सुरक्षा के संगम से ही तरक्की का रास्ता निकलता है, देख कर अच्छा लगा। इस वीडियो को टि्वटर और सोशल मीडिया पर अब तक हजारों व्यूज मिल चुके हैं और जनता भी इस वीडियो को काफी पसंद कर रहे हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  27 March 2022

raipur,No-confidence motion ,passed against, Bhatapara Janpad Panchayat President

रायपुर।बलौदाबाजार जिले के भाटापारा जनपद पंचायत अध्यक्ष संगीता मनोहर साहू के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव 20 मतों से पारित हो गया। जनपद पंचायत सदस्यों ने अध्यक्ष पर अनियमितता और दुर्व्यवहार का आरोप लगाते हुए अविश्वास प्रस्ताव लाया गया था । सुरक्षा व्यवस्था के लिहाज से पुलिस और प्रशासन की टीम तैनात रही। इससे पहले भी 2 बार अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग रद्द हो चुकी थी ।लेकिन न्यायालय से स्टे ऑर्डर हटने के बाद शुक्रवार को अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग हुई। जिसमें जनपद पंचायत अध्यक्ष संगीता मनोहर साहू के खिलाफ 20 वोट पड़े। अब प्रभारी अध्यक्ष के रूप मे उपाध्यक्ष सुरेंद्र यदु अध्यक्ष पद का संचालन करेंगे। जनपद पंचायत सदस्यों ने अध्यक्ष पर अनियमितता और दुर्व्यवहार का आरोप लगाया था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 March 2022

raipur, Governor danced , tribal women ,beat of the temple

रायपुर।राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके अपने दो दिवसीय सरगुजा प्रवास के दौरान सूरजपुर जिले के पण्डोनगर पहुँचाने पर विशेष पिछड़ी जनजाति पंडो समुदाय द्वारा परंपरागत ढंग से राज्यपाल सुश्री उइके का स्वागत किया गया। कार्यक्रम स्थल पहुंच राज्यपाल आदिवासी महिलाओं को कर्मा नृत्य करते देख खुद को रोक नहीं पाई और मांदर की थाप पर महिलाओं के साथ थिरकने लगी। इस दौरान राज्यपाल ने पण्डो जनजाति समुदाय को प्रदाय किए गए नवीन एम्बुलेंस को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। राज्यपाल सुश्री उइके ने सर्व विशेष पिछड़ी जनजाति समाज कल्याण समिति द्वारा शुक्रवार को आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि पण्डो जैसे अत्यंत पिछड़ी जनजाति को देश के प्रथम राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद ने दत्तक पुत्र के रूप में स्वीकार किया और उनके विकास के लिए हर संभव प्रयास किए। उन्होंने कहा कि आदिवासी ईमानदार और भोले-भाले होते हैं, इसी कारण उन्हें शोषण का शिकार होना पड़ रहा है। हमें शिक्षित और जागरूक होने की जरूरत है, तभी हमारा विकास संभव है। राज्यपाल ने कहा कि शासन-प्रशासन विशेष पिछड़ी जनजातियों के विकास के लिए तमाम कोशिशें कर रही है, किंतु आपकी अज्ञानता शोषण का कारण बन रही है। झाड़-फूंक और अंधविश्वास से ऊपर उठकर बीमार होने पर नजदीकी चिकित्सालय में जाकर इलाज कराएं। राज्यपाल सुश्री उइके ने कहा कि गर्भवती महिलाओं पर केन्द्रित कई शासकीय योजनाएं संचालित हैं। साथ ही पौष्टिक आहार वितरित किए जा रहे हैं, जिससे बच्चों का भी समुचित विकास होगा। राज्यपाल ने आयुष्मान कार्ड योजना का इलाज में लाभ लेने और जिनका आयुष्मान कार्ड नहीं बना है उन्हें तत्काल अपना आयुष्मान कार्ड बनवाने को कहा। जनजातीय महिलाओं को सशक्त व मजबूत होने आव्हान उन्होंने विशेष पिछड़ी जनजातियों को शोषण से बचाने के लिए स्थानीय स्तर पर रोजगार उपलब्ध कराने हेतु प्रयास करने की बात कही। साथ ही कहा कि जनजातीय कला एवं संस्कृति को संजोकर रखने के लिए हम सभी को मिलकर कार्य करना होगा। सामाजिक उत्थान के लिए योजनाओं के प्रभावी क्रियान्वयन हेतु सभी को प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से अपनी भूमिका निभानी होगी। उन्होंने कहा कि हमें पांचवी अनुसूची द्वारा प्रदत्त अधिकारों की जानकारी होनी चाहिए ताकि अनुसूचित क्षेत्र में ग्रामसभा में सर्वसम्मति से निर्णय लिया जा सके। राज्यपाल सुश्री उइके ने जनजातीय महिलाओं को सशक्त व मजबूत होने का आव्हान किया। महिलाओं के लिए सरकार आजीविका मूलक योजनाएं संचालित कर रही हैं, इसलिए हमें काम करने से पीछे नहीं हटना चाहिए। उन्होंने कहा कि हमें जनजातीय आहार का हिस्सा रहे कोदो, कुटकी, चिरौंजी एवं रागी जैसे फसलों के उत्पादन को बढ़ाना होगा, जिससे आर्थिक रूप से सक्षम होने के साथ-साथ हमें पौष्टिक आहार भी मिले। राज्यपाल ने समाज के लोगों को जाति प्रमाण पत्र बनाने में आ रही दिक्कतों पर चिंता जाहिर करते हुए जिला प्रशासन को इसका निराकरण करने के निर्देश दिए। इसके साथ ही उन्होंने वर्षों से काबिज अति पिछड़े ग्रामीणों को पट्टा देने की कार्रवाई तेज करने की बात कही तथा समाज के लोगों को प्रभावित करने वाले अतिक्रमण को तत्काल हटाने हेतु निर्देशित किया। समाज की मांग पर पोखरिया नाला में पुल निर्माण तथा पंडोनगर गांव में समाज के लिए सामुदायिक भवन निर्माण हेतु संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए। तीर धनुष से किया सम्मानित कार्यक्रम के अंत में पंडो समाज के लोगों ने मंच पर राज्यपाल को आदिवासी समाज के संस्कृति का प्रतीक तीर धनुष भेंटकर सम्मानित किया। कार्यक्रम में सरगुजा कमिश्नर श्री जी.आर. चुरेंद्र, सूरजपुर कलेक्टर डॉ. गौरव कुमार सिंह, एसपी श्री राजेश अग्रवाल, विशेष पिछड़ी जनजाति संगठन के प्रदेश अध्यक्ष श्री उदय कुमार पण्डो समेत प्रदेश भर के विशेष पिछड़ी जनजाति समुदाय के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 March 2022

raipur,Renowned director ,Chhattisgarh cinema, Kshamanidhi Mishra ,passes away

रायपुर।लंबे समय से बीमार चल रहे छत्तीसगढ़ सिनेमा के जाने -माने डायरेक्टर क्षमानिधि मिश्रा(55वर्षीय) का शनिवार की सुबह निधन हो गया। रायपुर के शंकर नगर स्थित निवास में उन्होंने अंतिम सांस ली। उनके निधन से प्रदेश के कलाकार बिरादरी के साथ ही उनके प्रशंसकों में शोक की लहर है। क्षमानिधि मिश्रा बहुआयामी कला के धनी थे। वे फिल्मों का निर्देशन करने के साथ ही प्रोडक्शन और गायक के तौर पर भी लंबे समय से सक्रिय भूमिका निभा रहे थे।क्षमानिधि मिश्रा ने ऑटो वाला भाटो, भंवर, मोर संग चल मितवा, लेड़गा नंबर 1, मयारू भौजी जैसी कई फिल्में बनाई हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 March 2022

raipur, mayor listened , problems people , resolved

रायपुर। रायपुर महापौर एजाज ढेबर ने शनिवार को जन चौपाल के माध्यम से लोगों की समस्याओं को सुना और उसका निराकरण किया। महापौर एजाज ढेबर जन चौपाल के माध्यम से प्रतिदिन अपने रायपुर स्थित सरकारी बंगले में सुबह 10 बजे से आमजनता की समस्याएं सुनेंगे और निराकरण करेंगे। महापौर एजाज ढेबर ने कहा कि लोगों की समस्याओं को सुनकर उसके निराकरण के लिए संबंधित व्यक्ति को फोन भी कर रहे हैं। रायपुर नगर निगम में काफी ज्यादा भीड़ हो जाती है और कई बार व्यवस्तता के चलते लोगों की समस्याओं का निराकरण नहीं हो पाता, लेकिन अब प्रतिदिन सुबह 10 बजे से आमजनता की समस्याएं सुनेंगे और निराकरण के लिए लगातार उस मामले में फॉलोअप भी लेते रहेंगे। बताते चलें कि महापौर हफ्ते में चार दिन लोगों की समस्याओं को सुनेंगे, बांकी तीन दिन किसी अन्य अधिकारी की ड्यूटी रहेगी। कोरोना की वजह से जन चौपाल का आयोजन नहीं किया जा रहा था। लेकिन अब शनिवार से पुन: जन चौपाल की शुरुआत की गई है। जन चौपाल के पहले दिन महापौर ने लोगों की समस्याओं काे सुना और उनका निराकरण किया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 March 2022

raipur, MNREGA, 405 crore approved,administrative expenditure

रायपुर। छत्तीसगढ़ में मनरेगा (महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम) के अंतर्गत कराए गए कार्यों में सामग्री मद के भुगतान और प्रशासकीय व्यय के लिए भारत सरकार द्वारा 405 करोड़ दस लाख 89 हजार रुपये मंजूर किए गए हैं। केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय ने वित्तीय वर्ष 2021-22 के दौरान मनरेगा कार्यों में सामग्री मद के भुगतान के लिए 290 करोड़ 65 लाख 37 हजार रुपये तथा वेतन-भत्तों एवं प्रशासकीय खर्चों की पूर्ति के लिए 114 करोड़ 45 लाख 52 हजार रुपये की राशि छत्तीसगढ़ के लिए जारी करने की स्वीकृति दी है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 March 2022

raipur, Khairagarh by-election. BJP released list . star campaigners

रायपुर। छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिला के खैरागढ़ विधानसभा उपचुनाव में प्रचार के लिए भाजपा ने अपने स्टार प्रचारकों की सूची जारी कर दी। इसमें 40 नेताओं के नाम हैं। इसमें से मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया का नाम भी शामिल है। स्टार प्रचारकों में प्रदेश प्रभारी डी. पुरंदेश्वरी, राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री शिवप्रकाश, पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह, प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय, नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक, सरोज पांडेय आदि शामिल हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 March 2022

raipur, Governor arrived,two-day visit , Surguja

रायपुर। राज्यपाल अनुसुईया उइके शुक्रवार को दो दिवसीय सरगुजा प्रवास के दौरान अम्बिकापुर रेलवे स्टेशन पहुंचने पर उनका आत्मीय स्वागत किया गया। रेलवे स्टेशन पर संभागायुक्त जी. आर. चुरेन्द्र, पुलिस महानिरीक्षक अजय यादव, कलेक्टर संजीव कुमार उपस्थित थे। तत्पश्चात अतिथि गृह पहुंचने पर राज्यपाल उइके ने अधिकारियों से सरगुजा संभाग की विभिन्न गतिविधियों व विकासमूलक कार्यों पर संक्षिप्त चर्चा भी की। इस दौरान संत गहिरा गुरु विश्वविद्यालय के कुलपति अशोक सिंह, जनजातीय समाज के प्रतिनिधि उदय पंडों, अनूप टेकाम उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 March 2022

raipur, Ashok Gehlot, reached Raipur, welcomed by Bhupesh

रायपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत शुक्रवार दोपहर छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर पहुंचे। गहलोत एयरपोर्ट से सीधे मुख्यमंत्री निवास पहुंचे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने निवास कार्यालय में गहलोत का आत्मीय स्वागत किया। दोनों नेताओं के बीच कुछ देर चर्चा भी हुई। इस अवसर पर वनमंत्री मोहम्मद अकबर, मुख्य सचिव अमिताभ जैन, अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू के अलावा छत्तीसगढ़ और राजस्थान के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 March 2022

raipur, Naxalites beat villager, set fire , six vehicles

रायपुर। छत्तीसगढ़ के गरियाबंद और कांकेर जिले में नक्सलियों ने मंगलवार देरशाम और रात को मारपीट और आगजनी की। गरियाबंद में नक्सलियों ने एक ग्रामीण की बेरहमी से पिटाई की। कांकेर जिले के आमाबेड़ा थाना क्षेत्र में सड़क निर्माण कार्य में लगे 6 वाहनों को फूंक दिया। गरियाबंद के मैनपुरी के एसडीओपी अनुज कुमार गुप्ता ने ग्रामीण की पिटाई की पुष्टि की है।कांकेर जिले के पुलिस अधीक्षक शलभ सिन्हा ने कहा कि घटना का विवरण जुटाया जा रहा है। पुलिस के मुताबिक गरियाबंद जिले के अमलीपदर क्षेत्र के खरीपथरा निवासी धनीराम (40 ) के घर देररात दो हथियारबंद नक्सली पहुंचे। दरवाजा खुलवाकर धनीराम को बाहर बुलाया और अपने साथ ले गए। इसके बाद उसकी बेरहमी से पिटाई की और गांव के बाहर फेंक कर चले गए। सुबह लोगों ने देखा तो पुलिस को सूचना दी। धनीराम के सीने और चेहरे पर गंभीर चोट आई हैं। पुलिस ने ग्रामीण को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया है। नक्सलियों ने पर्चा भी फेंका है । उसमें पुलिस मुखबिरी का आरोप लगाते हुए मृत्युदंड देने की धमकी दी गई है। पर्चे में लाल स्याही से भाकपा माओवादी उदंती एरिया कमेटी लिखा है। इस घटना के बाद इलाके में दहशत है। कांकेर जिले में भारी संख्या में पहुंचे नक्सलियों ने मंगलवार देरशाम आमाबेड़ा थाना क्षेत्र के ईरागांव से करमरी तक सड़क निर्माण कार्य में लगे 6 वाहनों को आग के हवाले कर दिया है। नक्सलियों ने निर्माण कार्य बंद करवाकर मजदूरों और वाहन चालकों को धमकाया। इसके बाद वाहनों के डीजल टैंक तोड़कर आग लगा दी। घटनास्थल संवेदनशील और नेटर्वकविहीन इलाका है। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि इलाके में फोर्स को भेजा जा रहा है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 March 2022

raipur, Chief Minister, pays tribute , Shaheed Bhagat Singh, Rajguru and Sukhdev

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के अमर शहीद भगत सिंह, राजगुरू और सुखदेव के शहादत दिवस पर उन्हें नमन किया है। बघेल ने बुधवार को अपने निवास कार्यालय में देश के महान सपूतों भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरू के चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि, देश की आजादी के लिए अपने प्राणों को न्यौछावर करने वाले इन देशभक्तों का त्याग एवं बलिदान हमें हमेशा प्रेरणा देता रहेगा। इन्होंने देश की आजादी के लिए हंसते-हंसते अपने प्राणों की आहुति दी। इन अमर शहीदों का बलिदान युगों-युगों तक भारतीय जनमानस में देशभक्ति की भावना जागृत करता रहेगा। इस अवसर पर गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू, कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे, स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह और खाद्य मंत्री अमरजीत भगत भी उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 March 2022

raipur, BJP nominated, Komal Janghel ,candidate

रायपुर। खैरागढ़ विधानसभा उपचुनाव के लिए भाजपा ने भी बुधवार को अपने उम्मीदवार के नाम की घोषणा कर दी है। भाजपा ने पूर्व विधायक कोमल जंघेल को अपना उम्मीदवार बनाया है। बताते चलें कि सबसे पहले खैरागढ़ विधानसभा उपचुनाव के लिए कांग्रेस ने उम्मीदवार के नाम की घोषणा की थी, जिसमें कांग्रेस ने यशोदा वर्मा को अपना उम्मीदवार बनाया था। और जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ ने अपना उम्मीदवार नरेंद्र सोनी को बनाया है। वहीं भाजपा ने भी उम्मीदवार के नाम का ऐलान करते हुए कोमल जंघेल को उम्मीदवार बनाया है। उल्लेखनीय है कि पूर्व में यह सीट जोगी कांग्रेस के पास थी, जहां से देवव्रत सिंह चुनाव जीते थे। विधायक देवव्रत सिंह की मृत्यु के बाद वहां उपचुनाव हो रहा है। खैरागढ़ उपचुनाव के लिए 12 अप्रैल को मतदान होना है। इसके लिए नामांकन की अंतिम तारीख 24 मार्च सुनिश्चित है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 March 2022

raipur, Six MNREGA workers , Chhattisgarh , honored in New Delhi

रायपुर। छत्तीसगढ़ के छह मनरेगा मजदूरों को 24 मार्च को नई दिल्ली में सम्मानित किया जाएगा। यह जानकारी एक सरकारी प्रवक्ता ने बुधवार को यहां दी। वित्तीय वर्ष 2018-19 में मनरेगा (महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम) के अंतर्गत 100 दिनों का रोजगार हासिल करने वाले परिवारों के ये श्रमिक कौशल उन्नयन के बाद अब खुद का व्यवसाय कर रहे हैं। केन्द्रीय ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज मंत्री गिरिराज सिंह नई दिल्ली के डॉ. अम्बेडकर इंटरनेशनल सेंटर में आयोजित कार्यक्रम में इन्हें सम्मानित करेंगे। कार्यक्रम में देशभर के ऐसे 75 श्रमिकों का सम्मान किया जा रहा है। केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा आजादी का अमृत महोत्सव के अंतर्गत इसका आयोजन किया जा रहा है। सम्मान समारोह का सीधा प्रसारण 24 मार्च को दोपहर सवा 12 बजे से फेसबुक और यूट्यूब पर देखा जा सकता है। प्रोजेक्ट ‘उन्नति’ के अंतर्गत प्रशिक्षण हासिल करने के बाद मशरूम उत्पादन का स्वरोजगार करने वाली धमतरी जिले के धमतरी विकासखण्ड की भनपुरी ग्राम पंचायत की नीतू बाई साहू तथा मोमबत्ती बनाने का काम शुरू करने वाली सारंगपुरी पंचायत की फूलवंती कंवर को केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा सम्मानित किया जाएगा। कौशल उन्नयन के बाद सिलाई का काम कर रही गरियाबंद जिले के फिंगेश्वर विकासखण्ड की लोहरसी की गीतांजली ध्रुव और पतोरा पंचायत की ओमेश्वरी कंवर, बकरी पालन का व्यवसाय शुरू करने वाले कोरिया जिले के सोनहत विकासखण्ड के पोड़ी ग्राम पंचायत के कृष्ण कुमार एवं मोबाइल रिपेयरिंग का काम कर रहे महासमुंद जिले के बसना विकासखण्ड के दुर्गापाली के बिमल साव भी नई दिल्ली में सम्मानित किए जाने वालों की सूची में शामिल हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 March 2022

raipur, Members , Sant Nirankari Mission ,Chief Minister Baghel

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से बुधवार को उनके निवास कार्यालय में संत निरंकारी मिशन के जोनल इंचार्ज एवं संयोजक गुरुबख्श सिंह कालरा के नेतृत्व में मिशन के सदस्यों ने सौजन्य मुलाकात की