Since: 23-09-2009

 Latest News :
मालगाड़ी से कुचल कर 16 मजदूरों की मौत.   साद के खिलाफ गैरइरादतन हत्या का मामला.   कोरोना पर शिवपुरी की जिज्ञासा का गाना.   पीएम मोदी ने सर्वदलीय बैठक में दिए संकेत.   तब्लीगी जमात के लोगों ने फेंकी पेशाब भरी बोतलें.   14 अप्रैल से आगे जारी रह सकता है लॉकडाउन.   चिरायु से एक हजार कोरोना मरीज ठीक हुए.   कोरेन्टीन सेंटर के बाहर शराबी ने मचाया उत्पात.   दिग्विजय :गोविन्द सिंह ने कांग्रेस के साथ धोखा किया.   मुख्यमंत्री के गृहजिले में पुलिसवाले की गुंडागर्दी.   कोरोना काल में सैंकड़ों चमगादड़ों की मौत.   मोदी सरकार के1साल पूर्ण होने पर शिवराज की बधाई.   CAF जवानों में हुआ खूनी संघर्ष.   छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम अजीत जोगी का निधन.   8 लाख के इनामी नक्सली ने किया आत्मसर्मपण.   सर्चिंग के दौरान पुलिस-नक्सली मुठभेड़.   नक्सलियों का रिमोट बम किया गया निष्क्रिय.   900 किमी झारखण्ड पैदल जाने पर अड़े मजदूर.  

देश की खबरें

थकान के कारण पटरी पर सो गए थे मजदूर   महाराष्ट्र के औरंगाबाद से शुक्रवार सुबह एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है.  |  रेल की पटरी पर प्रवासी मजदूरों को एक मालगाड़ी ने रौंद दिया |  औरंगाबाद के जालना रेलवे लाइन के पास ये हादसा हुआ |  जिसमें 16 मजदूरों की मौत हो गई है जबकि कई अन्य मजदूर घायल हो गए |  मध्यप्रदेश के थे और पटरी के सहारे पैदल लौट रहे थे  | मध्यप्रदेश सरकार ने मृतक मजदूरों के परिजनों को 5-5 लाख  के मुआवजे का ऐलान किया है  |  लॉकडाउन में फंसे हजारों प्रवासी मजदूरों का पैदल अपने घर जाना  जारी है |   शुक्रवार को महाराष्ट्र के औरंगाबाद में एक मालगाड़ी ने पटरी पर 16 मजदूरों को कुचल दिया | ये सभी प्रवासी मजदूर अपने घर पैदल जा रहे थे  | घटना के बाद स्थानीय प्रशासन और रेलवे के अधिकारी मौके पर पहुंचे हैं | ये सभी मजदूर मध्य प्रदेश के रहने वाले थे, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मृतक मजदूरों के परिवार वालों को 5-5 लाख रुपये का मुआवजा देने का ऐलान किया है |  उन्होंने रेल मंत्री से बात कर घायलों की सहायता करने को कहा है |  भारतीय रेलवे की ओर से इस हादसे को लेकर जो बयान जारी किया गया है, उसमें कहा गया है कि औरंगाबाद से कई मजदूर पैदल सफर कर आ रहे थे, कुछ किलोमीटर चलने के बाद ये लोग ट्रैक पर आराम करने के लिए रुके, उस वक्त मालगाड़ी आई और उसकी चपेट में कुछ मजदूर आ गए |  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी औरंगाबाद में हुए रेल हादसे पर दुख व्यक्त किया है. पीएम मोदी ने ट्वीट कर लिखा कि औरंगाबाद में हुए रेल हादसे में जिनकी जान गई है, उससे काफी दुख पहुंचा है | पीएम मोदी ने इस हादसे के बारे में रेल मंत्री पीयूष गोयल से बात की है और हालात का जायजा लेने को कहा है | कोरोना वायरस की वजह से लगे लॉकडाउन के कारण देशभर में मजदूर फंस गए थे | कई जगह से हजारों की संख्या में मजदूर पैदल ही अपने गांव-घर की ओर निकल रहे थे |   ऐसे में रात को रुकने के लिए सैकड़ों मजदूरों ने रेलवे ट्रैक का सहारा लिया | | हालाँकि बीते दिनों केंद्र सरकार की ओर से मजदूरों को उनके राज्य वापस भेजने की इजाजत दे दी गई थी |   जिसके बाद राज्य सरकारों ने बसों की व्यवस्था कर अपने मजदूरों को बुलाया  |  इसके अलावा रेलवे की ओर से स्पेशल श्रमिक ट्रेन भी चलाई गई हैं, जो मजदूरों को उनके राज्य पहुंचा रही हैं |  औरंगाबाद में ट्रेन की चपेट में आए सभी 16 मजदूर मध्यप्रदेश के शहडोल जिले के रहने वाले हैं |   ये लोग रेल पटरी के सहारे जालना से भुसावल जा रहे थे  |  40 किमी पैदल चलने के बाद थकान के कारण ये पटरी पर बैठ गए और वहीं सो गए |  इन्हें लगा कि अभी ट्रेनें बंद है, लेकिन एक मालगाड़ी ने चपेट में ले लिया  |   

Madhya Bharat Madhya Bharat 9 May 2020

देश की खबरें

कोरोना से निपटने बढ़ सकता है लॉकडाउन   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने  सर्वदलीय बैठक में लॉकडाउन बढ़ने के संकेत दिए  |  पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना वायरस के खिलाफ लंबी लड़ाई जरुरी है.| सभी की जिंदगी बचाना सरकारी की प्राथमिकता है |  प्रधानमंत्री ने कहा कि देश में स्थिति 'सामाजिक आपातकाल' के समान है |  इसके लिए कड़े फैसलों की जरूरत है और हमें निरंतर सतर्क रहना चाहिए. | साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि मैं एक बार फिर सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बात करूंगा |  उसके बाद लॉक डाउन पर फैसला होगा |  कोरोना वायरस और लॉकडाउन को लेकर पीएम मोदी ने आज राजनीतिक पार्टियों के फ्लोर लीडर्स के साथ बातचीत की |  वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए पीएम मोदी ने बीजेपी, कांग्रेस, डीएमके, एआईएडीएमके, टीआरएस, सीपीआईएम, टीएमसी, शिवसेना, एनसीपी, अकाली दल, एलजेपी, जेडीयू, एसपी, बीएसपी, वाईएसआर कांग्रेस और बीजेडी के फ्लोर लीडर्स के साथ कोरोना और लॉकडाउन पर चर्चा की. | बैठक में पीएम मोदी ने कहा कि राज्य, जिला प्रशासन और विशेषज्ञों ने वायरस के प्रसार को रोकने के लिए लॉकडाउन के विस्तार का सुझाव दिया है |   उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के कारण हम गंभीर आर्थिक चुनौतियों का सामना कर रहे हैं और सरकार इससे निपटने के लिए प्रतिबद्ध है | 80 फीसदी राजनीतिक पार्टियां लॉकडाउन बढ़ाने के पक्ष में हैं |  पीएम मोदी ने कहा कि उन्हें राज्यों से इसी तरह की मांग मिल रही है और वह उचित समय में हितधारकों के साथ चर्चा करके निर्णय लेंगे  |    

Madhya Bharat Madhya Bharat 9 April 2020

मध्यप्रदेश की खबरें

मरीजों से सिम्पैथी बीमारी से सावधानी जरूरी     गृह और स्वास्थय मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कोरोना योद्धाओं को सम्बोधित करते हुए कहा की  | जिसको कोरोना हो जाता था लोग उससे दूरी बना लेते थे |   इससे मन व्यथित होता था | बीमारियां पहले भी आती थी  लेकिन इस बार पीएम मोदी ने हमें बीमारी से लड़ना सिखाया है  | नरोत्तम मिश्रा  चिरायु अस्पताल से अब तक एक हजार मरीज  ठीक होने के मौके पर आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे |   मध्य प्रदेश के गृह एवं स्वास्थय मंत्री डॉक्टर नरोत्तम मिश्रा ने चिरायु अस्पताल से  ठीक होकर जा रहे सभी मरीजों को शुभकामनायें दी  | और कहा की लोगों को कोरोना से डरने की आवश्यकता नहीं  |  इससे सावधान रहने की जरूरत है  .| कोरोना मरीजों को सिम्पैथी की जरूरत है  |  लोगों से कोरोना योद्धाओं का हौसला बढ़ाने के लिए थाली बजाने के लिए कहा गया उन्होंने थाली बजाकर थाली ही तोड़ दी  |  दिया जलने को कहा तो दीवाली मनाने लगे  | नरोत्तम ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा की अगर कांग्रेस इंटेलिजेंस की रिपोर्ट पर कार्य करती तो शयद यह स्थिति नहीं आती |  उन्होंने कहा चिरायु ऑक्सीजन पद्धति पर कार्य कर रहा  है  | और ठीक हुए मरीजों को अपना अनुभव लोगों के सामने बताना चाहिए  | गांवो में पुरानी पद्धति के अनुसार गोबर से लीपा पोती की जाती है  | और पैर धोकर लोग अंदर जाते हैं जिससे बीमरी नहीं फैलती |    मिश्रा ने कहा  कोरोना असाध्य बीमारी नहीं , हम सावधानी रखकर इसे आसानी से हरा सकते हैं  | कोरोना स्वयं कोई मारक रोग नहीं है  |  यह घातक तब हो जाता है, जब मरीज किसी अन्य बीमारी से भी ग्रसित हो |  मिश्रा ने चिरायु अस्पताल के सीएमडी डॉ. अजय गोयनका और सभी मेडिकल कर्मचारियों की सराहना करते हुए कहा कि   | आज देश में ऐसा कोई अस्पताल नहीं है जहाँ इतनी अधिक संख्या में मरीजों के भर्ती होने के बाद  | एक प्रतिशत से भी कम की मृत्यु दर दर्ज की गई हो |  इस मौके पर ठीक होकर घर जा रहे  मरीजों ने भी अस्पताल कर्मचारियों का धन्यवाद किया  |   

Madhya Bharat Madhya Bharat 2 June 2020

मध्यप्रदेश की खबरें

पड़ौसी की जान लेना चाहता था पुलिसवाला गुंडों के साथ पुलिस वाले का पड़ौसी पर हमला पुलिस वाले को बचाने में लगी सीहोर की पुलिस   मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के गृहजिले सीहोर से एक पुलिसवाले की गुंडागर्दी का वीडियो जमकर वायरल हो रहा है |  ये पुलिस वाला अपने पड़ौसी की जान का दुश्मन बना हुआ है  | इसने अपने पड़ौसी पर जानलेवा हमला किया उसके बावजूद पुलिस  | पुलिस वाले को बचाने में लगी रही | जब घटना का वीडियो वायरल हुआ तो दिखावे के लिए गुंडई पर उतारू पुलिस वाले को सस्पेंड कर दिया गया है  |  मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के अच्छे कामों को एक पुलिस वाले ने ही पलीता लगा दिया |  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के गृहजिले सीहोर में गुंडागर्दी पर उतारू इस पुलिस वाले को बचाने के लिए पूरा पुलिस महकमा सक्रीय हो गया  था | वो तो अचानक पुलिस वाले उसके परिवार वाले और उसके भाड़े के लोगों का यह वीडियो वायरल हो गया  | जिसके बाद दिखावे के लिए पुलिस को इसके खिलाफ निलंबन की कार्यवाही करना पड़ी |  ये पुलिस वाला लम्बे समय से अपने पड़ौसी को इसलिए परेशान कर रहा था कि वो अपना मकान छोड़कर भाग जाएँ | और इसकी गुंडागर्दी के चलते ऐसा हो भी गया है | वैशाली नगर में रहने वाला पुलिस आरक्षक दरियाब सिंह  ने  अपने पड़ोसि पर गुंडे बुलवा कर रॉड और बंदूक और पत्थरों से हमला किया |  इन हमलावरों को जब लगा कि  यह सब सीसीटीवी कैमरे में कैद हो जाएगा तो इस गुंडा पार्टी ने सीसीटीवी कैमरों को तोड़ दिया | लेकिन इस सब के बावजूद यह घटनाक्रम रिकॉर्ड हो गया   | इस सब के बावजूद पुलिस ने पुलिस वाले की शिकायत पर पीड़ित पक्ष के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया |  बाद में मामले के तूल पकड़ने पर काउंटर fir  कर गुंडागर्दी करने वाले पुलिस वाले को निलंबित कर दिया गया  | दअरसल पीड़ित ओमप्रकाश चंद्रवंशी अपनी  पत्नी  ममता और दो बच्चों के साथ वैशाली नगर में  इस पुलिस वाले के घर के सामने रहता है |  वह देवास में SBI बैंक में  नौकरी  करता है | पिछले एक वर्ष से पुलिस वाला लगातार इनसे झगड़ रहा है  |  इसकी शिकायत भी पूर्व में की गई लेकिन पुलिस ने पुलिस वाले के खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिया  |  ममता ने बताया कि एक साल से पुलिस आरक्षक और उनकी  पत्नी गाली गलौज कर डराती है और धमकी देती थी कि मेरा कोई कुछ नही कर सकता  और बीते दिन पुलिस आरक्षक और आरक्षक की पत्नी के ने  मारपीट की तब इस मामले की शिकायत एसपी से की गई तब  एसपी ने पीड़ित परिवार को कैमरे लगाने की सलाह दी  | उसके बाद भी आरक्षक और उसके गुंडों ने चंद्रवंशी परिवार पर प्राणघातक हमला बोल दिया  |  यह पूरी घटना पास में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई |  लेकिन पुलिस ने कोई एक्शन नहींलिया  | जबकि सीसीटीवी कैमरे में साफ साफ दिख रहा है पुलिस आरक्षक की पत्नी और अन्य 3-4 युवको ने किस तरह रॉड और बंदूक से पीड़ित परिवार पर जानलेवा हमला किया  |  पीड़ित ओमप्रकाश की पत्नी ने बताया कि उनके पति विकलांग है सुनाई नही देता वह अपने घर मे अकेले बच्चों के साथ रहती है |  जिससे इस हमले से पूरा परिवार खोफ में है और डरा सहमा सा है और पुलिस आरक्षक के किये गए हमले के बाद यह परिवार घर छोड़कर अपने गांव गुडभेला में रह रहा है | पीड़ित परिवार का आरोप है  पुलिस  ने कोई बड़ी कार्यवाही नही की और उल्टा हमे ही डराया  धमकाया  जा रहा है | जब मुख्यमंत्री के गृह जिले में पुलिस ऐसी गुंडागर्दी कर रही है तो अंदाज लगाया जा सकता है बाकि जगह क्या हाल होगा |   

Madhya Bharat Madhya Bharat 2 June 2020

छतीसगढ़ की खबरें

गोली लगने से दो जवानों की मौत   छत्तीसगढ़ के नारायणपुर में जवानों के बीच  आपस में खूनी संघर्ष हो गया  | इस दौरान जमकर गोलीबारी भी हुई जिसमें  दो जवानों की मौत हो गई |  एक जवान गंभीर रूप से जख्मी हुआ है  | घटना के बाद कैंप में अफसरों ने  बड़ी मुश्किल से आरोपी  जवान का हथियार  छीना और उसे   गिरफ्तार कर लिया    नारायणपुर से 38 किमी दूर आमदई कैंप में शुक्रवार रात  जवानों के बीच आपसी विवाद  हो गया  |  नक्सल मोर्चे पर कैंप में सुरक्षा जवानों के बीच हुई गोलीबारी में दो जवानों की मौत हो गई  वहीं एक जवान गंभीर रूप से घायल हुआ  तो उसे उपचार के लिए रायपुर रेफर किया गया है |  सूत्रों के मुताबिक कैंप में एपीसी घनश्याम कुमेटी ने अपने तीन साथियों पर फायरिंग कर दी | जिसमें लक्षराम प्रेमी कमर में गोली लगने से बुरी तरह घायल हो गया | वहीं पीसी बिन्देश्वर साहनी और प्रधान आरक्षक रामेश्वर साहू  की  गर्दन में गोली लगने से मौके पर ही मौत हो गई  | कडेनार कैंप में छह जवानों की मौत के बाद इस क्षेत्र में यह दूसरी बार जवानों के बीच खूनी संघर्ष हुआ है |  इससे पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है | ये जवान सीएएफ नौ बटालियन के हैं |   आरोपी जवान घनश्याम कुमेटी को छोटेडोंगर थाना में गिरफ्तार कर घटना के संदर्भ में पूछताछ की जा रही है  | 

Madhya Bharat Madhya Bharat 1 June 2020

छतीसगढ़ की खबरें

2 जवान शहीद 4 गंभीर रूप से घायल   कांकेर में सर्चिंग के लिए  निकले पुलिस जवानो पर घात लगाकर बैठे नक्सलियों ने हमला कर दिया | हमले में  दो जवान शहीद हो गए  जबकि चार  गंभीर रूप से घायल बताये जा रहे हैं  |  कांकेर जिला से सटे गढ़चिरौली सीमा में नक्सलियों ने बड़ी नक्सल घटना को अंजाम दिया है | पुलिस नक्सली  मुठभेड़ में 2 जवान शहीद हो गए हैं | और  4 जवान गंभीर रूप से घायल हुए हैं  |   बताया जा रहा है की  गढ़चिरौली के  कोपरशी होडरी जंगल मे पुलिस के जवान सर्चिंग पर निकले थे  |  इसी दौरान घात लगाकर बैठे नक्सलियों ने जवानों पर अचानक हमला कर दिया  | घायलो को इलाज के लिए  हॅलीकॅप्टर से गढ़चिरोली ले जाया गया |  मुठभेड मे सब इन्सपेक्टर  धनाजी और जवान किशोर आजाम शहीद  हुए हैं  |    

Madhya Bharat Madhya Bharat 19 May 2020

Video

Page Views

  • Last day : 1899
  • Last 7 days : 11576
  • Last 30 days : 61845
x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved ©2020 MadhyaBharat News.