Since: 23-09-2009

  Latest News :
नेशनल कॉन्फ्रेंस इंडिया गठबंधन के साथ कांग्रेस से होगी सीट शेयरिंग : फारूक अब्दुल्ला.   राज्यसभा चुनाव : 15 में से 10 भाजपा उम्मीदवार जीते.   गायक पंकज उधास का निधन.   जेपी नड्डा ने \'विकसित भारत, मोदी की गारंटी\' रथ को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना.   देश में स्थिर सरकार का असर कपड़ा उद्योग क्षेत्र में भी नजर आया: प्रधानमंत्री .   प्रधानमंत्री मोदी ने सबसे लंबा केबल ब्रिज `सुदर्शन सेतु\' देश को समर्पित किया.   भाजपा का परिवार लगातार बढ़ रहा पार्टी देश में 370 से अधिक सीटें जीतेगी: मुख्यमंत्री डॉ. यादव.   भोपाल सहित 6 नगरीय निकायों में चलेंगी 552 ई-बसें.   मप्र: जीतू पटवारी का तंज बोले- पर्ची से निकले मुख्यमंत्री से नही संभल रहा प्रदेश.   ग्वालियर-चंबल अंचल में बुधवार को बूंदाबांदी की संभावना.   इंदौर रोड पर बस-डंपर से टकराई.   कूनो में सफल हुआ है चीतों का पुनर्स्थापन: केंद्रीय मंत्री.   दंतेवाड़ा के किंरदुल एनएमडीसी खदान में धंसी चट्टान चार मजदूरों की मौत.   मीसाबंदियों की सम्मान निधि फिर शुरू होगी- मुख्यमंत्री साय.   एक शैक्षणिक सत्र में दो बार होगी बोर्ड की परीक्षाएं, आदेश जारी.   सदन में उठा कवर्धा दोहरे हत्याकांड का मामला विपक्ष ने कहा कानून व्यवस्था गंभीर.   बड़े भाई ने छोटे भाई की गोली मार कर की हत्या.   नवविवाहिता की आग से जलकर मौत.  

देश की खबरे

srinagar, National Conference , Farooq Abdullah

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर नेशनल कॉन्फ्रेंस (एनसी) के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला ने मंगलवार को कहा कि वे लोकसभा चुनाव इंडिया गठबंधन के हिस्से के रूप में लड़ेंगे और सीट बंटवारे पर कांग्रेस के साथ बातचीत चल रही है। फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि देश को विनाश से बचाने के लिए इंडिया गठबंधन को मजबूत बनाना होगा। जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने मंगलवार को श्रीनगर में मीडियाकर्मियों से कहा कि अगर इंडिया गठबंधन को मजबूत नहीं किया जा सका तो हम खुद ही देश को संकट में डाल देंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के साथ बातचीत चल रही है और कुछ दिनों में सीट बंटवारे पर फैसले के बारे में जनता को बता दिया जाएगा। फारूक ने कहा कि इसमें कोई संदेह नहीं है कि हमें कांग्रेस के साथ गठबंधन करना होगा, क्योंकि उमर (अब्दुल्ला) उनके संपर्क में हैं और बहुत संभावना है कि कुछ दिनों में फैसला आ जाएगा।   उन्होंने कहा कि कांग्रेस के साथ गठबंधन जाहिर तौर पर जम्मू-कश्मीर में राजनीतिक परिदृश्य को मजबूत करेगा। उन्होंने कहा कि हम अकेले मजबूत नहीं हो सकते और यह देश का एक हिस्सा है। यह पूछे जाने पर कि एनसी के कुछ पूर्व नेता भाजपा में शामिल हो रहे हैं, फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि लोग आएंगे और जाएंगे। ये कोई नई कहावत नहीं है। कोई भाजपा में जाएगा और कोई भाजपा से बाहर आएगा, ये चुनाव का हिस्सा है और इसका नेशनल कांफ्रेंस पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि हमें अपने बल पर चुनाव लड़ना है। हमने पहले भी चुनाव लड़ा है और आज फिर अपनी ताकत और ताकत के दम पर चुनाव लड़ेंगे। फारूक ने कहा कि वे चाहते हैं कि जम्मू-कश्मीर में जल्द विधानसभा चुनाव हों।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  27 February 2024

new delhi, Rajya Sabha elections, BJP candidates won

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश, कर्नाटक और हिमाचल प्रदेश में मंगलवार को राज्यसभा की 15 सीटों के लिए चुनाव हुए। इन राज्यों में एक-एक अतिरिक्त उम्मीदवार था। कर्नाटक में कांग्रेस के तीन और भाजपा के एक उम्मीदवार जीते, उत्तर प्रदेश में 8 भाजपा के और दो सपा के उम्मीदवार जीते और हिमाचल प्रदेश में एक सीट भाजपा के खाते में गई है। चुनाव आयोग ने 15 राज्यों की 56 सीटों पर द्विवार्षिक चुनावों की घोषणा की थी। इनमें 12 राज्यों में 41 उम्मीदवार निर्विरोध चुने गए। कर्नाटक में घोषित नतीजों को मुताबिक कांग्रेस के तीनों उम्मीदवार राज्यसभा चुनाव जीत गए। अजय माकन, डॉ सैयद नसीर हुसैन और जीसी चंद्रशेखर राज्यसभा सांसद बने। वहीं भाजपा के नारायण बंदगे भी राज्यसभा सदस्य बन गए हैं। हिमाचल प्रदेश की एक सीट पर कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी और कांग्रेस के ही बागी हर्ष महाजन के बीच मुकाबला था। दोनों सीटों पर मतदान के बाद 34-34 वोट दोनों उम्मीदवारों को पड़े। मुकाबला बराबरी पर रहने के पर्ची के जरिए नाम तय किया गया और हर्ष महाजन उसमें जीत गए। उत्तर प्रदेश में देर तक गिनती चली। इसमें भाजपा के आठ और सपा के दो उम्मीदवार जीते। भाजपा की ओर से आरपीएन सिंह, सुधांशु त्रिवेदी, चौधरी तेजवीर सिंह, साधना सिंह, अमरपाल मौर्य, संगीता बलवंत, नवीन जैन चुनाव जीते। भाजपा के 8वें प्रत्याशी संजय सेठ भी चुनाव जीते। वहीं सपा से जया बच्चन, रामजी लाल सुमन चुनाव जीते और तीसरे प्रत्याशी आलोक रंजन चुनाव हार गए। राज्यसभा की 10 सीटों पर 11 प्रत्याशी मैदान में थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  27 February 2024

mumbai, Singer Pankaj Udhas ,passes away

मुंबई। अपनी जादुई आवाज से फैंस का दिल जीतने वाले गायक पंकज उधास का निधन हो गया है। वे 72 साल के थे। यह जानकारी उनके बेटी ने दी है। उन्होंने मुंबई के ब्रीचकैंडी अस्पताल में आखिरी सांस ली। पंकज उधास के निधन से संगीत जगत में शोक छा गया है। फिल्म नाम में 'चिठ्ठी आई है...'गाना से पंकज उदास चर्चा में आए थे। ''चांदी जैसा रंग हो तेरा सोने जैसा बाल..'' गजल गाने वाले पंकज उधास की आवाज हमेशा के लिए शांत हो गई है। पंकज की बेटी नायब उधास ने अपनी एक पोस्ट में लिखा कि हमें आपको यह बताते हुए बहुत दुख हो रहा है कि पद्मश्री पंकज उधास का निधन हो गया है। पिछले दस दिन से उनका इलाज चल रहा था। पंकज उधास का अंतिम संस्कार मंगलवार को किया जाएगा। पंकज उधास ने छह साल की उम्र में संगीत की दुनिया में अपना करियर शुरू किया था। गायन का संस्कार उन्हें अपने घर से ही मिला था। उन्होंने संगीत की दुनिया में कदम रखा और यहीं के होकर रह गये। पंकज उधास के निधन के बाद गायक शंकर महादेवन और अन्य मशहूर हस्तियों ने भी दुख व्यक्त किया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 February 2024

new delhi, JP Nadda ,

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने सोमवार को भाजपा विस्तार कार्यालय से 'संकल्प पत्र सुझाव अभियान' की शुरुआत की और 'विकसित भारत, मोदी की गारंटी' रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। ये वीडियो रथ पूरे देश में यात्रा करेगा और 15 मार्च तक प्राप्त एक करोड़ से अधिक सुझाव पत्रों को संकल्प पत्र में शामिल किया जाएगा। जनता से मिले सुझावों को भाजपा अपने संकल्प पत्र में शामिल करेगी। इस मौके पर नड्डा ने कहा कि देश के लोकसभा क्षेत्रों में वीडियो वैन के माध्यम से हम लगभग 250 स्थानों पर समाज के विभिन्न वर्गों के साथ संवाद करेंगे और उनके सुझावों का भी हम अपने साथ समावेश करेंगे। जनता-जनार्दन के आशीर्वाद और सुझाव लेने का हम सबने निर्णय किया है। इसके अतिरिक्त नमो एप में भी इसके लिए एक अलग सेक्शन है, जिसके बारे में विस्तृत जानकारी भी इन वीडियो वैन के माध्यम से दी जाएगी। उन्होंने कहा कि हर तरीके से जनता जनार्दन की आकांक्षाएं हम तक पहुंचें और मोदी के नेतृत्व 2024 से अगले 5 वर्षों में उन्हें हम पूरा करेंगे और अमृतकाल में विकसित और आत्मनिर्भर भारत की तरफ लंबी छलांग लगाने की ओर हम अग्रसर होंगे, ये हमारा संकल्प है। उन्होंने आह्वान किया कि विकसित भारत-मोदी की गारंटी के तहत लोग फोन नम्बर 9090902024 पर मिस्ड कॉल कर सकते हैं, अपने सुझाव दर्ज करा सकते हैं। वीडियो वैन देश के कोने कोने में जाएगी और लगभग 1 करोड़ से ज्यादा सुझाव पत्र हमारे पास 15 मार्च तक पहुंचेंगे, जिनका समावेश करके हमारा संकल्प पत्र बनेगा। विकसित भारत, आत्मनिर्भर भारत, विश्व मित्र भारत के सपने जो 2014 में अकल्पनीय थे, आज वो मोदी के नेतृत्व में साकार हो रहे हैं। अब भारत इस अमृतकाल में विकसित भारत की ओर लंबी छलांग लगाने के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने तय किया है कि देश के सभी लोकसभा क्षेत्रों में वीडियो वैन के माध्यम से विकसित भारत की कल्पना के साथ प्रधानमंत्री मोदी द्वारा किए गए कार्यों और आत्मनिर्भर भारत के लिए इस अमृतकाल में हो रहे कार्यों से संबंधित सभी बातों को भारत की जनता के सामने रखेंगे। इसी के साथ हमारे संकल्प पत्र के लिए सुझाव मांगने का कार्य भी हम सब 15 मार्च तक पूरा करेंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 February 2024

new delhi,  stable government , Prime Minister

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को कहा कि देश में स्थिर और दूरदर्शी सरकार होने का लाभ स्पष्ट तौर पर कपड़ा उद्योग क्षेत्र में नजर आ रहा है। पिछले 10 साल में यह सात लाख करोड़ से बढ़कर 12 लाख करोड़ रुपये का हो गया है। उन्होंने कहा कि भारत का कपड़ा क्षेत्र विकसित भारत के चार महत्वपूर्ण स्तंभों गरीब, युवा, किसान और महिला सभी से जुड़ा है। हमारा दृढ़ विश्वास है कि हम भारत को 'ग्लोबल एक्सपोर्ट हब' में बदल देंगे। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बदले हुए परिदृश्य पर यह बड़ी बात नई दिल्ली स्थित भारत मंडपम में 'भारत टेक्स 2024' का उद्घाटन करते हुए कही। 'भारत टेक्स 2024' देश में आयोजित होने वाले वस्त्र क्षेत्र से जुड़े वैश्विक स्तर के अब तक का सबसे बड़ा आयोजन है। यह चार दिवसीय आयोजन उद्घाटन के साथ भारत मंडपम और यशोभूमि में शुरू हो गया । इस अवसर पर 3 हजार से अधिक प्रदर्शक, 100 देशों के लगभग 3 हजार खरीदार और लगभग 40 हजार व्यापार आगंतुक एक साथ आए हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आयोजन को वैल्यू-चेन और टेक्सटाइल इको सिस्टम से जुड़े लोगों के लिए एक साझा मंच पर एक साथ आने का एक शानदार अवसर बताया। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार विकसित भारत के निर्माण में टेक्सटाइल सेक्टर के योगदान को बढ़ाने के लिए विस्तृत दायरे में काम रही है। इसमें परंपरा, तकनीक, योग्यता और प्रशिक्षण ( ट्रेडिशन, टेक्नोलोजी, टेलेंट और ट्रेनिंग) पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। सरकार टेक्सटाइल वैल्यू चेन के सभी पहलुओं को पांच ‘एफ’ के सूत्र से से जोड़ रही है। फाइव यानी ‘एफ’ फार्म, फाइबर, फैक्ट्री, फैशन और फॉरेन (खेत, धागा, फेक्ट्री, पहनावा और विदेश )। सरकार के लगातार प्रयासों से भारत के कपड़ा क्षेत्र में विदेशी निवेश में बढ़ोतरी हो रही है। उन्होंने कहा कि पिछले 10 वर्ष में सरकार के प्रयास से खादी को विकास और रोजगार दोनों मिले हैं। भारत दुनिया में कपास, पटसन और सिल्क के बड़े उत्पादकों में से एक है। लाखों किसान इस काम में जुटे हैं। लाखों कपास किसानों को सरकार मदद कर रही है। उनसे लाखों क्विंटल खादी खरीद रही है। सरकार की ओर से लांच कस्तूरी कपास भारत की अपनी पहचान बनाने की ओर एक बड़ा कदम होने वाला है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि उनकी सरकार लोगों के जीवन में कम से कम दखल दिए जाने पर विश्वास रखती है। सरकार केवल यह सुनिश्चित कर रही है कि गरीबों की जरूरत पूरी होनी चाहिए। अगले पांच वर्ष में भी इसी दिशा में प्रयास जारी रहेगा। इस आयोजन में 65 से अधिक ज्ञान सत्र होंगे। दुनिया के 100 से अधिक पैनलिस्ट इस क्षेत्र से संबंधित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा करेंगे। इसमें स्थिरता और चक्रीयता पर समर्पित मंडप, एक ‘इंडी हाट’, भारतीय वस्त्र विरासत, स्थिरता एवं वैश्विक डिजाइन जैसे विविध विषयों पर फैशन प्रस्तुतियों के साथ-साथ संवादात्मक (इंटरैक्टिव) फैब्रिक परीक्षण क्षेत्र और उत्पादों के प्रदर्शन का भी समावेश होगा। यह आयोजन वस्त्र क्षेत्र से जुड़े छात्रों, बुनकरों, कारीगरों और वस्त्र क्षेत्र से जुड़े श्रमिकों के अलावा नीति-निर्माताओं एवं वैश्विक स्तर के सीईओ की भागीदारी है। इस आयोजन के दौरान 50 से अधिक घोषणापत्र और समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर होने की उम्मीद है। इससे वस्त्र क्षेत्र में निवेश एवं व्यापार को और अधिक बढ़ावा मिलेगा तथा निर्यात को बढ़ाने में मदद मिलेगी। यह प्रधानमंत्री के 'आत्मनिर्भर भारत और 'विकसित भारत' के दृष्टिकोण को आगे बढ़ाने की दिशा में एक और महत्वपूर्ण कदम साबित होगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 February 2024

new delhi, Prime Minister Modi ,

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गुजरात दौरे पर रविवार सुबह बेट द्वारका मंदिर पहुंच कर पूजा-अर्चना के बाद नवनिर्मित सुदर्शन सेतु का उद्घाटन किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सीआर पाटिल भी मौजूद थे। सुदर्शन सेतु देश का सबसे लंबा केबल पुल है। लगभग 980 करोड़ की लागत से बना यह केबल ब्रिज ओखा मुख्य भूमि को बेट द्वारका द्वीप से जोड़ता है। इसकी लंबाई 2.32 किलोमीटर है। प्रधानमंत्री मोदी आज गुजरात में अलग-अलग कार्यक्रमों में शामिल होंगे और 52,250 करोड़ से अधिक की विकास परियोजनाओं की आधारशिला रखेंगे। इनमें स्वास्थ्य, सड़क, रेल, ऊर्जा, पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस, पर्यटन जैसे महत्वपूर्ण क्षेत्र शामिल हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 February 2024

chandigarh, Goods train, without loco pilot

चण्डीगढ़। पंजाब के पठानकोट क्षेत्र में रविवार सुबह बड़ा रेल हादसा होने से बच गया। यहां एक मालगाड़ी बगैर लोको पायलट ट्रैक पर दौड़ पड़ी। जिसे करीब 70 किलोमीटर बाद रोक लिया गया। हालांकि घटना में किसी तरह का नुकसान होने से बच गया है। रेलवे अधिकारियों ने घटना की जांच के आदेश दे दिए हैं। जानकारी के अनुसार पठानकोट के पास कठुआ से मालगाड़ी बिना लोको पायलट के अचानक चल पड़ी। ट्रेन रवाना होने का बाद रास्ते में सभी रेलवे गेटमैन को मैसेज भेजा गया कि सभी फाटक बंद रखे जाएं। रेलवे स्टाफ के मुताबिक ट्रेन रोकने के लिए अलावलपुर में तैयारी की जा रही थी। स्टेशन पर अनाउंसमेंट करके पटरियां खाली करवाई गई। कड़ी मशक्कत के बाद ट्रेन को उच्ची बस्सी में रोक लिया गया है। करीब 70 से 80 किलोमीटर तक मालगाड़ी ऐसे ही दौड़ती रही। रेलवे अधिकारियों ने होशियारपुर में दहूसा के पास कड़ी मशक्कत के बाद मालगाड़ी को रोका। रेलवे की जांच टीम मौके पर पहुंचकर जांच करेगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 February 2024

new delhi, Three months pause , ‘Mann Ki Baat’

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम को सरकार से दूर देश की सामूहिक शक्ति की चर्चा का मंच बताया। साथ ही उन्होंने घोषणा की कि कार्यक्रम पर तीन महीने के लिए विराम लगेगा और चुनावों के बाद 111 के शुभ अंक यानी 111वें एपीसोड से फिर वे जनता के बीच देश की सामूहिक शक्ति के प्रयासों की चर्चा करेंगे। रेडियो कार्यक्रम मन की बात के 110वें एपीसोड के अंत में प्रधानमंत्री ने कहा कि मन की बात हमेशा सरकार से दूर रहते हुए देश की सामूहिक शक्ति के प्रयासों की चर्चा का मंच रहा है। आगे लोकसभा चुनाव आने वाले हैं और आचार संहिता लगने वाली है। ऐसे में वे तीन महीनों के लिए मन की बात को विराम देंगे। कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ने पहली बार मतदाता बन रहे युवाओं से बढ़-चढ़कर वोट करने की अपील की। उन्होंने कहा कि कुछ दिन पहले चुनाव आयोग ने एक अभियान शुरू किया है- ‘मेरा पहला वोट-देश के लिए’। वे पहली बार मतदान करने वाले मतदाताओं से रिकॉर्ड संख्या में मतदान करने का आग्रह करते हैं। उन्होंने कहा कि भारत को जोश और ऊर्जा से भरी अपनी युवा शक्ति पर गर्व है। उन्होंने नेशनल क्रिएटर्स अवॉर्ड की जानकारी देते हुए कहा कि सोशल मीडिया ने लोगों के कौशल और प्रतिभा को प्रदर्शित करने में बहुत मदद की है। भारत में युवा कंटेंट क्रिएशन के क्षेत्र में चमत्कार कर रहे हैं। उनकी प्रतिभा को सम्मान देने के लिए इन अवॉर्ड की शुरुआत की गई है। प्रधानमंत्री ने भारतीय संस्कृति और परंपराओं को संरक्षित करने तथा दूसरों की सेवा करने की दिशा में हो रहे निस्वार्थ प्रयासों को अपने कार्यक्रम में शामिल किया। उन्होंने कहा कि हमारी संस्कृति हमें ‘परमार्थ परमो धर्म:’ की सीख देती है। इस संदर्भ में उन्होंने बिहार ेके भोजपुर के भीम सिंह भवेश के अति पिछड़ी मुसहर जनजाति के बच्चों को शिक्षित करने के प्रयासों की जानकारी दी। उन्होंने गूजर बकरवाल समुदाय से आने वाले मोहम्मद मानशाह के जम्मू-कश्मीर में गोजरी भाषा के संरक्षण, अरूणाचल प्रदेश में तिरप के बनवंग लोसू के वांचो भाषा के प्रसार और वेंकप्पा अम्बाजी सुगेतकर गोंधली भाषा के उत्थान के प्रयासों की सराहना की। उन्होंने बताया कि कैसे ओडिशा के कालाहांडी में बकरी पालन गांव के लोगों की आजीविका और जीवन स्तर को ऊपर करने में भूमिका निभा रहा है। इस दिशा में जयंती महापात्रा और उनके पति बीरेन साहू के प्रयासों की प्रशंसा की। प्रधानमंत्री ने बताया कि कैसे मेलघाट टाइगर रिजर्व के पास खटकली गांव में रहने वाले आदिवासी परिवारों ने सरकार की मदद से अपने घरों को होम स्टे में बदल दिया है। यह उनके लिए आय का बड़ा जरिया बन रहा है। साथ ही कैसे हमारे देश के विभिन्न हिस्सों में वन्य जीवन के संरक्षण के लिए प्रौद्योगिकी का बड़े पैमाने पर उपयोग किया जा रहा है। ‘मन की बात’ में उन्होंने कहा कि आज नारी हर क्षेत्र में आगे बढ़ रही है। 8 मार्च को महिला दिवस के संदर्भ में उन्होंने कार्यक्रम में कुछ सशक्त महिलाओं से बातचीत की। उन्होंने कहा कि महिला दिवस देश की विकास यात्रा में नारी शक्ति के योगदान को नमन करने का अवसर है। उन्होंने कहा कि महिलाओं ने अपनी नेतृत्व क्षमता का प्रदर्शन प्राकृतिक खेती, जल संरक्षण और स्वच्छता के क्षेत्र में भी दिया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 February 2024

new delhi,  BSP MP , joins BJP

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के अंबेडकर नगर से बसपा सांसद रितेश पांडे रविवार को भाजपा में शामिल हो गए। पांडेय ने नई दिल्ली स्थित भाजपा मुख्यालय में पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। इस अवसर पर पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बैजयंत पांडा, राष्ट्रीय महासचिव तरुण चुग, उत्तर प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष भूपेन्द्र चौधरी और उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक प्रमुख रूप से मौजूद रहे। ब्रजेश पाठक ने रितेश पांडे का पार्टी में स्वागत करते हुए आशा व्यक्त की कि वे उत्तर प्रदेश में युवाओं को प्रधानमंत्री के विकसित भारत के लक्ष्य से जोड़ने का काम करेंगे। वहीं रितेश पांडे ने पार्टी नेतृत्व को धन्यवाद देते हुए उत्तर प्रदेश और खासकर उनके क्षेत्र में हुए विकास कार्यों का उल्लेख किया और विकसित भारत के संकल्प की दिशा में काम करने की बात कही। उल्लेखनीय है कि रितेश पांडे ने आज ही बसपा की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दिया था। विधानसभा चुनाव में रितेश के पिता एवं पूर्व सांसद राकेश पांडेय बसपा छोड़कर सपा में शामिल हुए थे। सपा के टिकट पर जलालपुर से विधायक बने। इसके बाद से बसपा प्रमुख मायावती रितेश से भी नाराज चल रही थीं। उन्हें पार्टी के संसदीय दल के नेता पद से हटा दिया। नतीजा यह हुआ कि पार्टी के कार्यक्रमों से भी वे दूर रहे। हाल में संसद भवन की कैंटीन में प्रधानमंत्री के साथ लंच करने वाले सांसदों में रितेश पांडेय भी शामिल थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 February 2024

kasganj, Tractor trolley, Uttar Pradesh

कासगंज। उत्तर प्रदेश के कासगंज जनपद में पटियाली दरियागंज मार्ग पर शनिवार सुबह बड़ा हादसा हो गया। जिला एटा से गंगा स्नान करने जा रहे करीब 40 श्रद्धालुओं से भरी ट्रैक्टर ट्रॉली तालाब में जा गिरी। हादसे में 15 लोगों की मृत्यु की पुष्टि की गई है। मृतकों में कई बच्चे भी शामिल हैं। हादसे की सूचना मिलते ही प्रशासनिक अमला मौके पर पहुंच गया है। रेस्क्यू ऑपरेशन कर तालाब से लोगों को निकाला जा रहा है। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को मृतक आश्रितों को दो-दो लाख की आर्थिक सहायता और घायलों को 50-50 हजार रुपये के साथ बेहतर उपचार कराने के दिए निर्देश। जिला एटा के थाना जैथरा स्थित गांव खिरिया और कसा के रहने वाले 40 श्रद्धालु ट्रैक्टर ट्राली में बैठ कर शनिवार को माघ पूर्णिमा के अवसर पर गंगा स्नान करने कादरगंज घाट जा रहे थे। कासगंज जिले में पटियाली दरियावगंज मार्ग पर नगला पजी के पास श्रद्धालुओं से भरी ट्रैक्टर ट्रॉली अनियंत्रित होकर तालाब में जा गिरी। घटना के बाद चीख-पुकार मच गई। राहगीरों की जानकारी पर पुलिस और स्वास्थ्य विभाग की टीम मौके पर पहुंची और बचाव अभियान शुरू किया गया। तालाब में डूब कर 15 लोगों की मौत हो गई। मृतकों में कई बच्चे शामिल हैं। घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया। सीएमओ डॉक्टर राजीव कुमार अग्रवाल ने 15 लोगों की मौत की पुष्टि कर दी है। घटना की जानकारी पर डीएम सुधा वर्मा, एसपी अपर्णा रजत कौशिक सहित एसडीएम, सीओ, इंस्पेक्टर मौके पर पहुंच गए। क्षेत्रीय लोगों और गोताखोरों की मदद से श्रद्धालुओं को तालाब से बाहर निकला गया। इनकी शिनाख्त के लगातार प्रयास किया जा रहे हैं। शवों को पोस्टमार्टम के लिए जिला मुख्यालय भेज दिया है। कई लोग गंभीर हैं, इन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मृतकों के संबंध में जिला प्रशासन की ओर से अभी कोई सूची जारी नहीं की गई है। घटनास्थल पर बचाव कार्य जारी है। हादसे में मृतकों की संख्या बढ़ने की आशंका है। मुख्यमंत्री ने जताया दुख मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कासगंज हादसे का संज्ञान लिया है। उन्होंने हादसे में मृतक परिजनों को 2-2 लाख रुपये और गंभीर रूप से घायलों को 50 हजार रुपये की सहायता राशि देने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन के अधिकारियों को मौके पर पहुंच कर राहत कार्य में तेजी लाने व घायलों को तत्काल अस्पताल पहुंचा कर उनके नि:शुल्क समुचित उपचार के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा घायलों के जल्द स्वस्थ होने की भी कामना की है। सरकार के दो मंत्री मौके पर पहुंचे कासगंज में हुए हादसे का योगी सरकार ने संज्ञान लेते हुए मौके पर दो मंत्रियों को भेजा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हादसे की बारीकी से जांच करने और हताहत लोगों से मिलने के लिए लक्ष्मीनारायण चौधरी और अनूप वाल्मिकी को भेजा है। दोनों ही मंत्री मौके पर पहुंच कर राहत कार्य और घटना के सम्बंध में अधिकारियों से जानकारी ली और बेहतर उपचार कराने को अधिकारियों को निर्देशित किया। अखिलेश यादव ने घटना पर शोक व्यक्त किया समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि कासगंज में हुए श्रद्धालुओं की ट्रैक्टर ट्राली के पलटने से बड़ी संख्या में हताहत होने की खबर दुखद है। राहत कार्य तेजी से कर लोगों का जीवन बचाएं। घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 February 2024

new delhi, Cooperative sector, Prime Minister

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सहकारिता को भारत की प्राचीन अवधारणा बताते हुए कहा कि सहकारी क्षेत्र एक लचीली अर्थव्यवस्था को आकार देने और ग्रामीण क्षेत्रों के विकास को गति देने में सहायक है। उन्होंने सहकारी समितियों से खाद्य तेल जैसी कृषि वस्तुओं पर भारत की आयात निर्भरता कम करने और श्रीअन्न (मोटे अनाज) ब्रांड को दुनिया के हर डाइनिंग टेबल तक पहुंचाने का आह्वान किया।   प्रधानमंत्री ने शनिवार को दिल्ली के भारत मंडपम में सहकारिता से जुड़ी विभिन्न परियोजनाओं की शुरुआत की। उन्होंने 11 राज्यों में अनाज वितरण के लिए 11 पैक्स भंडारण सुविधाओं की शुरुआत की और 500 पैक्स भंडारण केंद्रों के निर्माण की आधारशिला रखी।   इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने कहा कि आज दुनिया के सबसे बड़ी अन्न भंडारण योजना की शुरुआत की गई है। इसके परिणामस्वरूप देश के हर कोने में हजारों वेयरहाउस और गोदाम बनाए जाएंगे। इसके अलावा आज 18000 पैक्स के कंप्यूटराइजेशन का काम भी पूरा हुआ है। इससे देश के कृषि इंफ्रास्ट्रक्चर में बड़ा बदलाव आयेगा और कृषि क्षेत्र से आधुनिक तकनीक जुड़ेगी।   प्रधानमंत्री ने कहा कि सहकारिता भारत के लिए प्राचीन अवधारणा है। उन्होंने एक ग्रंथ का हवाला देते हुए बताया कि छोटे संसाधनों को एक साथ मिलाने पर बड़ा काम पूरा किया जा सकता है और भारत में गांवों की प्राचीन व्यवस्था में इसी मॉडल का पालन किया जाता था। उन्होंने कहा कि खेती और किसानी की नींव को मजबूत करने में सहकारिता की शक्ति की बहुत बड़ी भूमिका है। इस सोच के साथ हमने अलग सहकारिता मंत्रालय का गठन किया। प्रधानमंत्री ने जोर देकर कहा कि इस नए मंत्रालय के माध्यम से सरकार का लक्ष्य भारत के कृषि क्षेत्र की खंडित शक्तियों को एक साथ लाना है।   किसान उत्पादक संगठन (एफपीओ) का उदाहरण देते हुए प्रधानमंत्री ने गांवों में छोटे किसानों के बीच बढ़ती उद्यमशीलता का उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि अलग मंत्रालय होने के कारण देश में 10,000 एफपीओ के लक्ष्य में से 8000 एफपीओ पहले से ही कार्यरत हैं। सहकारिता का लाभ अब मछुआरों और पशुपालकों तक भी पहुंच रहा है। मत्स्य पालन क्षेत्र में 25,000 से अधिक सहकारी इकाइयां कार्यरत हैं। प्रधानमंत्री ने आने वाले वर्षों में 200,000 सहकारी समितियों की स्थापना के सरकार के लक्ष्य को दोहराया।   प्रधानमंत्री ने पीएसीएस जैसे सरकारी संगठनों के लिए नई भूमिका बनाने के सरकार के प्रयास पर प्रकाश डालते हुए कहा कि विकसित भारत के निर्माण के लिए कृषि प्रणालियों का आधुनिकीकरण भी उतना ही महत्वपूर्ण है। ये समितियां जन औषधि केंद्र के रूप में कार्य कर रही हैं जबकि हजारों पीएम किसान समृद्धि केंद्र भी संचालित किए जा रहे हैं। उन्होंने पेट्रोल, डीजल और एलपीजी सिलेंडर के क्षेत्र में काम करने वाली सहकारी समितियों का भी उल्लेख किया, जबकि पैक्स कई गांवों में जल समितियों की भूमिका भी निभाती है। प्रधानमंत्री ने कहा कि इससे ऋण समितियों की उत्पादकता में वृद्धि हुई है और आय के नए स्रोत भी पैदा हुए हैं। उन्होंने कहा कि सहकारी समितियां अब गांवों में सामान्य सेवा केंद्रों के रूप में काम कर रही हैं और सैकड़ों सुविधाएं प्रदान कर रही हैं। उन्होंने आगे कहा कि इससे गांवों में युवाओं के लिए रोजगार के नए अवसर पैदा होंगे।   प्रधानमंत्री ने विकसित भारत की यात्रा में सहकारी संस्थानों के महत्व को रेखांकित किया। उन्होंने उनसे आत्मनिर्भर भारत के लक्ष्यों में योगदान देने को कहा। प्रधानमंत्री ने जोर देकर कहा कि आत्मनिर्भर भारत के बिना विकसित भारत संभव नहीं है। उन्होंने सुझाव दिया कि सहकारी को उन वस्तुओं की सूची बनानी चाहिए जिनके लिए हम आयात पर निर्भर हैं और यह पता लगाना चाहिए कि सहकारी क्षेत्र उन्हें स्थानीय स्तर पर उत्पादन करने में कैसे मदद कर सकता है। उन्होंने एक उत्पाद के रूप में खाद्य तेल का उदाहरण दिया जिसे अपनाया जा सकता है। इसी तरह इथेनॉल के लिए सहयोगात्मक प्रयास ऊर्जा जरूरतों के लिए तेल आयात पर निर्भरता को कम कर सकता है। दलहन आयात एक अन्य क्षेत्र है जिसे प्रधानमंत्री ने विदेशी निर्भरता को कम करने के लिए सहकारी समितियों के लिए सुझाया है। उन्होंने कहा कि कई वस्तुओं का विनिर्माण भी सहकारी समितियों द्वारा किया जा सकता है।   प्रधानमंत्री ने प्राकृतिक खेती और किसानों को ऊर्जादाता (ऊर्जा प्रदाता) और उर्वरकदाता (उर्वरक प्रदाता) बनाने में सहकारी समितियों की भूमिका को भी रेखांकित किया। उन्होंने कहा कि खेतों की सीमाओं पर छत पर लगे सौर ऊर्जा और सौर पैनलों को सहकारी पहल के क्षेत्रों के रूप में देखा जा सकता है। इसी तरह का हस्तक्षेप गोवर्धन, जैव सीएनजी, खाद और अपशिष्ट से धन के उत्पादन में भी संभव है। उन्होंने कहा कि इससे उर्वरक आयात बिल भी कम होगा। उन्होंने सहकारी समितियों से छोटे किसानों के प्रयासों की वैश्विक ब्रांडिंग के लिए आगे आने को कहा। उन्होंने श्रीअन्न (मोटा अनाज) को वैश्विक स्तर पर डाइनिंग टेबल पर उपलब्ध कराने के लिए भी कहा।   इस अवसर पर केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह ने कहा कि आजादी के बाद से सहकारी क्षेत्र के कर्मचारियों की ओर से अलग सहकारिता मंत्रालय की मांग की जा रही थी। समय के साथ सहकारी क्षेत्र में बदलाव, इसे प्रासंगिक बनाए रखने और इसे आधुनिक बनाने के लिए यह महत्वपूर्ण था। पिछली सरकारों ने इस जरूरत को पूरा नहीं किया लेकिन नरेन्द्र मोदी ने प्रधानमंत्री बनने के बाद इस मांग को पूरा किया और एक पूर्ण सहकारिता मंत्रालय का गठन किया।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 February 2024

new delhi, Lok Sabha elections , announced alliance

नई दिल्ली। काफी जद्दोजहद के बाद आम आदमी पार्टी (आप) और कांग्रेस पार्टी के बीच लोकसभा चुनाव में गठबंधन को लेकर अंतिम निर्णय हो गया। दोनों पार्टियों ने पांच राज्यों दिल्ली, गुजरात, हरियाणा, चंडीगढ़ और गोवा में लोक सभा चुनाव लड़ने को फैसला किया है। चंडीगढ़ लोकसभा सीट पर कांग्रेस अकेले अपने दम पर चुनाव लड़ेगी। गोवा में कांग्रेस दोनों सीटों पर चुनाव लड़ेगी। कांग्रेस और आप के बीच आगामी लोकसभा चुनाव के लिए सीट बंटवारे की औपचारिक घोषणा शनिवार को एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान कांग्रेस महासचिव और सांसद मुकुल वासनिक ने की। कांग्रेस महासचिव और सांसद मुकुल वासनिक ने सीट शेयरिंग को लेकर औपचारिक घोषणा करते कहा कि दिल्ली (7 सीटों) में कांग्रेस 3 और आप 4 पर चुनाव लड़ेगी। उन्होंने कहा कि गुजरात (26 सीटों) में कांग्रेस 24 और आप 2 (भरूच और भावनगर में) पर चुनाव लड़ेगी। हरियाणा (10 सीट) में कांग्रेस 9 और आप 1 (कुरुक्षेत्र) पर चुनाव लड़ेगी। मुकुल वासनिक ने कहा कि आप और कांग्रेस उन सभी जगहों पर एक साथ प्रचार करेंगे जहां दोनों पार्टियों के उम्मीदवार और भारतीय गठबंधन के अन्य दलों के उम्मीदवार चुनाव लड़ेंगें। लोकसभा चुनाव के लिए दिल्ली में कांग्रेस और आप के बीच सीट बंटवारे पर दिल्ली कांग्रेस प्रमुख अरविंदर सिंह लवली ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि कांग्रेस उत्तर पूर्व, चांदनी चौक और उत्तर पश्चिम सीट पर चुनाव लड़ेगी। नई दिल्ली, पश्चिम दिल्ली, दक्षिण दिल्ली और पूर्वी दिल्ली में आप चुनाव लड़ेगी। उधर, आप के सौरभ भारद्वाज ने कहा कि पंजाब में कांग्रेस और आप स्वतंत्र रूप से चुनाव लड़ेंगी। असम में बातचीत का रास्ता अभी भी खुला है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 February 2024

muradabad, Patriots run ,Rahul Gandhi

मुरादाबाद। उत्तर प्रदेश में कांग्रेस सांसद राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा का दूसरा चरण शनिवार को मुरादाबाद से शुभारंभ हुआ। राहुल के साथ उनकी बहन एवं पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा भी यात्रा में शामिल हुईं। न्याय यात्रा में कांग्रेस के साथ ही गठबंधन सहयोगी समाजवादी पार्टी के पदाधिकारी भी मौजूद रहे। इस अवसर पर मौजूद लोगों को राहुल गांधी, प्रियंका गांधी समेत पार्टी के कई प्रमुख नेताओं ने संबोधित किया। राहुल ने भाजपा पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि देशभक्त नफरत की नहीं, मोहब्बत की दुकान चलाते हैं। नफरत हमेशा मोहब्बत से कटती है। हमें संकल्प लेना चाहिए कि इस देश में हम नफरत को नहीं फैलने देंगे। उन्होंने कहा कि देश की 90 प्रतिशत जनता में दलित, पिछड़े, आदिवासी, अल्पसंख्यक शामिल हैं लेकिन देश की बड़ी कंपनियों के मालिक इन 90 प्रतिशत लोगों में से नहीं हैं। उन्होंने कहा कि जैसे हड्डी टूटने पर पहले चरण में हाथ का एक्सरे कराया जाता है वैसे ही इन 90 प्रतिशत लोगों की सभी जगह भागीदारी हो इसके लिए प्रथम चरण में जातिगत जनगणना आवश्यक है। मुरादाबाद की बहू प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि जब तक आप बदलाव नहीं लाएंगे तब तक आपकी स्थिति नहीं बदलेगी। बदलाव तब आएगा, जब आप अपनी परिस्थिति को समझ कर वोट करेंगे। उन्होंने आरोप लगाया कि इस सरकार में किसानों के कर्ज माफ नहीं होते हैं, सिर्फ बड़े-बड़े उद्योगपतियों के कर्ज ही माफ होते हैं। इस मौके पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय राय, राष्ट्रीय सचिव प्रदीप नरवाल एवं संजय कपूर, कांग्रेस जिलाध्यक्ष असलम खुर्शीद, महानगर अध्यक्ष अनुभव मेहरोत्रा आदि पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद रहे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 February 2024

new delhi, Big blow, Tamil Nadu

नई दिल्ली। तमिलनाडु में कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। वहां से तीन बार की कांग्रेस विधायक एस. विजयाधरानी ने शनिवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का दामन थाम लिया। शनिवार को यहां भाजपा मुख्यालय में तमिलनाडु के चुनाव प्रभारी अरविंद मेनन, तमिलनाडु के सह चुनाव प्रभारी सुधाकर रेड्डी, केंद्रीय मंत्री एल. मुरुगन एवं अन्य नेताओं की मौजूदगी में तमिलनाडु में एस. विजयाधरानी ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। केंद्रीय मंत्री एल मुरुगन ने कांग्रेस विधायक का पार्टी में स्वागत करते हुए कहा कि विजयाधरानी के आने से पार्टी तमिलनाडु में और ज्यादा मजबूत होगी। पार्टी में शामिल होने के बाद विजयाधरानी ने नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व पर भरोसा जताया। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं से देश की जनता लाभान्वित हो रही है। देश के विकास में महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने और उन्हें सशक्तीकरण के लिए मोदी सरकार सरकार ने काफी काम किया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 February 2024

hydrabad,MLA Lasya Nandita, road accident

हैदराबाद। तेलंगाना के विपक्षी दल भारत राष्ट्र समिति (बीआरएस) विधायक लस्या नंदिता (33 वर्ष) की शुक्रवार को सड़क दुर्घटना में मौत हो गई। पुलिस के मुताबिक संगारेड्डी जिले के अमीनपुर सुल्तानपुर ओआरआर के निकट हादसा हुआ है जब विधायक एक निजी समारोह में भाग लेकर कार से हैदराबाद लौट रही थीं। माना जा रहा है कि हादसा उस वक्त हुआ जब सामने आ रहे वाहन से बचने के चक्कर में कार चला रहे उनके पीए ने अचानक ब्रेक लगाया और अनियंत्रित होकर कार रेलिंग से जा टकराई। सीट बेल्ट न लगाने के कारण लास्या की मौके पर ही मौत हो गई। तेलंगाना के मुख्यमंत्री रेवंत रेड्डी ने कहा कि लस्या नंदिता की असामयिक मृत्यु से गहरा सदमा लगा है। उनके परिवार के सदस्यों के प्रति गहरी संवेदना। लस्या नंदिता का पार्थिव शरीर पोस्टमार्टम के बाद उनके परिजनों को सौंप दिया गया है। आज शाम पूरे राजकीय सम्मान के साथ उनकी अंत्येष्टि हैदराबाद में होगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 February 2024

new delhi, India discovered , Pakistani submarine

नई दिल्ली। भारतीय नौसेना ने पानी के अंदर पनडुब्बी की खोज और बचाव क्षमता हासिल की है। भारत ने अपने कई मित्र देशों के साथ अपनी पनडुब्बी बचाव क्षमताओं के लिए पेशकश की है, जिसमें कई देशों ने दिलचस्पी दिखाई है। नौसेना की डीप सबमर्जेंस रेस्क्यू व्हीकल (डीएसआरवी) यूनिट ने भारत-पाकिस्तान युद्ध के दौरान 1971 में विशाखापट्टनम तट के पास डूबी पाकिस्तानी पनडुब्बी ‘पीएनएस गाजी’ का मलबा खोजा है। इसके अलावा जापानी पनडुब्बी आरओ-110 का मलबा भी पिछले 80 वर्षों से बंदरगाह शहर के पास समुद्र तल पर पड़ा हुआ है। भारतीय नौसेना की विशाखापट्टनम में स्थित डीप सबमर्जेंस रेस्क्यू व्हीकल (डीएसआरवी) यूनिट के ऑफिसर इंचार्ज कैप्टन विकास गौतम ने बताया कि भारतीय नौसेना के पास समुद्र की गहराई में जलमग्न पोत की बचाव क्षमता है। इस प्रणाली में संकटग्रस्त पनडुब्बी का पता लगाने के लिए एक साइड स्कैन सोनार है, जो दूर से संचालित वाहन (आरओवी) की मदद से आपातकालीन कंटेनरों को तैनात करके पनडुब्बी के चालक दल को बचाता है। दरअसल, पनडुब्बी दुर्घटना में तीव्रता के साथ जीवन की सुरक्षा सबसे महत्वपूर्ण है। इसलिए इस सिस्टम को फ्लाईअवे कॉन्फ़िगरेशन में खरीदा गया है जो वायु, भूमि, समुद्री जहाजों का उपयोग करके बेस से संकटग्रस्त पनडुब्बी के सटीक स्थान तक बचाव प्रणाली के तेजी से परिवहन की अनुमति देता है। कैप्टन गौतम ने बताया कि 2018 में भारत ने डूबे हुए जहाजों और पनडुब्बियों का पता लगाने और आवश्यकतानुसार बचाव अभियान चलाने के लिए गहरे जलमग्न बचाव वाहन (डीएसआरवी) तैनात करने की क्षमता प्राप्त की। दुर्घटनाग्रस्त पनडुब्बी को बचाने की यह सुविधा कुछ चुनिन्दा देशों के पास ही है लेकिन भारतीय डीएसआरवी प्रौद्योगिकी और क्षमताओं के मामले में नवीनतम है। पनडुब्बी आकस्मिकता से निपटने के लिए भारत को यह प्रौद्योगिकी ब्रिटेन की कंपनी जेम्स फिशेज डिफेंस ने आपूर्ति की है, जो भारत के पश्चिमी और पूर्वी तट पर स्थापित की गई हैं। इस प्रौद्योगिकी में विभिन्न प्रकार की पनडुब्बियों को समुद्र के भीतर खोजने के साथ ही कर्मियों को बचाकर पनडुब्बी से डीएसआरवी में सुरक्षित स्थानांतरण किया जा सकता है। भारतीय नौसेना की पनडुब्बी बचाव इकाई के वरिष्ठ अधिकारी ने भारत-पाकिस्तान युद्ध के दौरान 1971 में विशाखापट्टनम तट के पास डूबी पाकिस्तानी पनडुब्बी गाजी के मलबे की खोज का खुलासा किया है। उन्होंने बताया कि 53 साल पहले खोई हुई इस पनडुब्बी का हमने डीएसआरवी से पता लगाया है। यह खोज विशाखापट्टनम तट से कुछ ही समुद्री मील की दूरी पर की गई है। संयुक्त राज्य अमेरिका से पट्टे पर ली गई पीएनएस गाज़ी ने दिसंबर, 1971 में भारत-पाकिस्तान युद्ध के दौरान रहस्यमय परिस्थितियों में डूबने तक पाकिस्तानी नौसेना के लिए प्रमुख पनडुब्बी के रूप में काम किया था, जिसमें सवार सभी 93 कर्मियों की जान चली गई थी। उन्होंने बताया कि हासिल की गई इन क्षमताओं को अज्ञात समुद्री धाराओं के मानचित्रण के लिए महत्वपूर्ण उपकरण माना जाता है, जो भारतीय नौसेना के पानी के नीचे प्लेटफार्मों के लिए उन्नत नेविगेशन समर्थन प्रदान करता है। लगभग 16 मीटर की औसत गहराई के कारण विशाखापट्टनम उन कुछ बंदरगाह शहरों में से एक है, जहां समुद्र में चलने वाले जहाजों के लिए गहरे प्रवेश द्वार हैं। यहां की प्राकृतिक खूबियों से पनडुब्बियों को तट के नजदीक तक संचालित किया जा सकता है। इसी अनूठी विशेषता के कारण भारत के साथ युद्ध के दौरान पाकिस्तानी नौसेना की पनडुब्बी पीएनएस गाजी विशाखापट्टनम तट के पास गश्त करने आई थी और डूबकर खो गई थी। हालांकि, भारत विशाखापट्टनम तट पर पाकिस्तानी पनडुब्बी को डुबोने के लिए अपने आईएनएस 'राजपूत' को श्रेय देता है लेकिन पाकिस्तान इसकी वजह आंतरिक विस्फोट और विशाखापट्टनम बंदरगाह की सुरक्षा के लिए तैनात भारतीय बारूदी सुरंगों को बताता है। उन्होंने बताया कि पीएनएस गाजी के अलावा जापानी पनडुब्बी आरओ-110 का मलबा भी पिछले 80 वर्षों से बंदरगाह शहर के पास समुद्र तल पर पड़ा हुआ है। यह पनडुब्बी द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान रॉयल इंडियन नेवी के एचएमआईएस जमना और ऑस्ट्रेलियाई नौसेना के जहाज इप्सविच से जारी किए गए डेप्थ चार्ज के कारण डूब गई थी। उन्होंने बताया कि मौजूदा समय में यह सुविधा भारत के साथ-साथ अमेरिका, चीन, रूस और सिंगापुर के अलावा 12 देशों के पास है। पनडुब्बी क्षमता वाले लगभग 40 देशों में से भारत सबसे आगे है। भारत ने पनडुब्बी बचाव कार्यों के लिए स्वदेशी रूप से दो डाइविंग सपोर्ट जहाज (डीएसवी) निर्मित किये हैं, जिन्हें विशाखापट्टनम के हिंदुस्तान शिपयार्ड लिमिटेड (एचएसएल) में जल्द शामिल किये जाने की उम्मीद है। समुद्र में 650 मीटर की गहराई तक काम करने में सक्षम यह उन्नत तकनीक क्षेत्रीय समुद्री सुरक्षा के प्रति भारतीय नौसेना की प्रतिबद्धता को उजागर करती है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 February 2024

dehradoon, BJP announces ,election management committee

देहरादून। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने लोकसभा चुनाव के प्रदेश चुनाव प्रबंधन समिति की घोषणा कर दी है। प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट की अध्यक्षता में बनी इस समिति में 38 विभागों के लिए पार्टी पदाधिकारियों को जिम्मेदारी दी गई है जिसमें घोषणा पत्र समिति के संयोजक पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत और विशेष संपर्क अभियान समिति के संयोजक मदन कौशिक तथा चुनाव प्रबंधन समिति का संयोजक राज्यसभा सदस्य नरेश बंसल को बनाया गया है। प्रदेश मीडिया प्रभारी मनवीर चौहान ने शुक्रवार को बताया कि प्रदेश अध्यक्ष की सहमति से बनी इस समिति में चुनाव प्रबंधन समिति के संयोजक के रूप में राज्यसभा सदस्य नरेश बंसल और सह संयोजक आदित्य कोठारी, खिलेंद्र चौधरी, राजेंद्र बिष्ट कार्य करेंगे। इसके अतिरिक्त न्यायिक मामले एवं चुनाव आयोग संपर्क प्रमुख के रूप में संजय गुप्ता और सह प्रमुख जयवर्धन कांडपाल, प्रचार सामग्री एवं साहित्य वितरण प्रमुख के रूप में राजेंद्र ढिल्लों और सह प्रमुख खीमा शर्मा, विज्ञापन अभियान विभाग में प्रमुख विपिन कैंथोला और सह प्रमुख दिलीप कंडारी, दीप कोश्यारी, घोषणा पत्र विभाग में प्रमुख त्रिवेंद्र सिंह रावत और सह प्रमुख बलवंत सिंह भौर्याल, दीप्ति रावत एवं राज्य सभा सांसद डॉक्टर कल्पना सैनी, आरोप पत्र विभाग में प्रमुख मुन्ना सिंह चौहान और सह प्रमुख नेहा जोशी जिम्मेदारी देखेंगी। विशेष संपर्क विभाग के संयोजक मदन कौशिक सह संयोजक विजय बहुगुणा, डॉक्टर आर के जैन, प्रदीप बिष्ट, चुनाव कार्यालय प्रमुख केदार जोशी, कॉल सेंटर प्रमुख विशाल गुप्ता, कार्यालय प्रबंधन हरीश डोरा, अतिथि विभाग सौरभ थोपलियाल को जिम्मेदारी मिली है। चुनाव प्रबंधन समिति के मीडिया विभाग में प्रमुख की जिम्मेदारी मनवीर चौहान संभालेंगे जिनके साथ सह प्रमुख के रूप में राजेंद्र नेगी, चंदन बिष्ट, मानिक निधि शर्मा को जिम्मेदारी दी गई है। मीडिया संपर्क प्रमुख सुरेश जोशी एवं सह प्रमुख कुंवर जपेंद्र एवं सोशल मीडिया एवं हाईटेक अभियान विभाग के प्रमुख नवीन ठाकुर एवं सह प्रमुख करुण दत्ता,गंधार अग्रवाल के साथ डिजिटल विभाग प्रमुख अजीत नेगी को बनाया गया है। इसी तरह साहित्य सामग्री निर्माण मीरा रतूड़ी एवं विनोद सुयाल,साहित्य छपवाना प्रमुख डॉक्टर देवेंद्र भसीन, प्रचार सामग्री कौस्तुभानंद जोशी, वाहन प्रमुख अनिल गुप्ता और बलजीत सोनी, प्रवास प्रमुख अनिल गोयल एवं सीताराम भट्ट, वीरेंद्र बिष्ट वीडियो वैन श्याम अग्रवाल, संसाधन प्रमुख डॉक्टर धन सिंह रावत, हिसाब किताब प्रमुख पुनीत मित्तल, आंकड़े प्रमुख राजेंद्र बिष्ट, प्रालेखिकरण एवं दस्तावेजीकरण अजेंद्र अजय, संस्कृति राजेंद्र रावत और नुपुर गुप्ता, प्रवासी कार्यकर्ता राजीव तलवार काम देखेंगे। महिला अभियान आशा नौटियाल, युवा अभियान शशांक रावत, एससी अभियान समीर आर्य, एसटी अभियान राकेश राणा, झुग्गी झोपड़ी अभियान डॉक्टर महेंद्र कश्यप, सामाजिक संपर्क राकेश गिरी, लाभार्थी अभियान प्रमुख ज्योति प्रसाद गैरोला, बूथ कार्य प्रमुख आदित्य कोठारी, भाषण बिंदु प्रमुख डॉक्टर देवेंद्र भसीन, विस्तारक योजना प्रमुख कुंदन परिहार और सह ऋषि कण्डपाल को बनाया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 February 2024

varansi,  Kashi is improving ,Prime Minister

वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के स्वतंत्रता भवन सभागार में काशी सांसद ज्ञान, सांसद संस्कृत एवं सांसद फोटोग्राफी प्रतियोगिता के विजेताओं को पुरस्कृत किया। संस्कृत के छात्रों को किताबें, निःशुल्क ड्रेस, वाद्ययंत्र और 66 छात्रों में योग्यता छात्रवृत्ति वितरित कर सांसद फोटोग्राफी प्रतियोगिता गैलरी का अवलोकन भी किया। इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने कहा कि कालातीत काशी सर्वविद्या की राजधानी है। आज काशी का सामर्थ्य स्वरूप फिर से संवर रहा है। यह पूरे भारत के लिए गौरव की बात है। विगत 10 वर्षों में काशी में हुए आमूल चूल परिवर्तन की चर्चा करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि हम सब तो निमित्त मात्र हैं, काशी में करने वाले तो महादेव हैं। जहां महादेव की कृपा हो जाती है, वह धरती ऐसे ही संपन्न हो जाती है। पूरी दुनिया से लोग शांति की तलाश में काशी आते हैं। इस समय महादेव खूब प्रसन्न हैं। इसलिए महादेव के आशीष के साथ 10 साल में काशी में चारों ओर विकास का डमरू बजा है। उन्होंने मौके पर लगाए गए फोटोग्राफी प्रदर्शनी की चर्चा करते हुए कहा कि मंच पर आने से पहले काशी सांसद फोटोग्राफी प्रतियोगिता की गैलरी देखी। 10 साल में विकास की गंगा ने काशी को सींचा है। काशी कितनी तेजी से बदली है, उसे आप सबने साक्षात देखा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि काशी केवल आस्था का तीर्थ नहीं, ये भारत की शास्वत चेतना का जागृत केंद्र है। एक समय था जब भारत की समृद्धि की गाथा पूरे विश्व में सुनाई जाती थी। इसके पीछे भारत की आर्थिक ताकत ही नहीं हमारी सांस्कृतिक और सामाजिक ताकत भी थी। प्रधानमंत्री ने कहा कि काशी जैसी तीर्थ और विश्वनाथ धाम जैसे मंदिर ही राष्ट्र की प्रगति की यज्ञशाला हुआ करती थीं। यहां साधना भी होती थी और शास्त्रार्थ भी होते थे। उन्होंने कहा कि भारत ने जितने भी नये विचार और विज्ञान दिये उनका संबंध किसी न किसी सांस्कृतिक केंद्र से थे। काशी शिव की नगरी है और बुद्ध के उपदेशों की भूमि है। काशी जैन तीर्थंकरों की भूमि है और आदि शंकराचार्य को भी यहां से बोध मिला है। प्रधानमंत्री ने कहा कि काशी विश्वनाथ धाम के लोकार्पण के वक्त मैंने कहा था कि ये धाम भारत को निर्णायक दिशा देगा। भारत को उज्ज्वल भविष्य की ओर लेकर जाएगा। आज ये दिख रहा है। अपने भव्य रूप में विश्वनाथ धाम भारत को निर्णायक भविष्य की ओर ले जाने के लिए फिर से राष्ट्रीय भूमिका में लौट रहा है। इस परिसर में देशभर के विद्वानों की विद्वत संगोष्ठियां हो रही हैं। मंदिर न्याय शास्त्रार्थ की परंपरा को पुनर्जीवित कर रहा है। इससे देशभर के विद्वानों में विचारों का आदान प्रदान बढ़ रहा है, प्राचीन ज्ञान का संरक्षण और नये विचारों का काशी सांसद संस्कृत प्रतियोगिता और काशी सांसद ज्ञान प्रतियोगिता भी इसी प्रयास का हिस्सा है। इसके पहले प्रधानमंत्री ने भोजपुरी में लोगों का अभिवादन कर अपने संबोधन की शुरुआत की। दो दिवसीय वाराणसी दौरे के अंतिम दिन बीएचयू पहुंचे प्रधानमंत्री का स्वागत शंखध्वनि और पुष्पवर्षा के बीच किया गया। कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ने सांसद खेलकूद, सांसद फोटोग्राफी, सांसद ज्ञान और सांसद संस्कृत प्रतियोगिता के विजेताओं- आशुतोष पति त्रिपाठी, तारा देवी एवं शिखा मिश्रा को छात्रवृत्ति स्वरूप 10-10 हजार रुपये का चेक प्रदान किया। इस दौरान उन्होंने सांसद खेलकूद, सांसद फोटोग्राफी, सांसद ज्ञान और सांसद संस्कृत प्रतियोगिता की स्मारिका एवं काफी टेबल बुक का लोकार्पण भी किया। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी, मंत्री रविंद्र जायसवाल, मंत्री डॉ दयाशंकर मिश्र 'दयालु' सहित कई प्रमुख लोग उपस्थित रहे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 February 2024

mumbai, Former Chief Minister ,Manohar Joshi, passes away

मुंबई। महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और पूर्व लोकसभा अध्यक्ष मनोहर जोशी का आज (शुक्रवार) तड़के यहां के पीडी हिंदुजा अस्पताल में निधन हो गया। उन्होंने 86 वर्ष की आयु में अंतिम सांस ली। परिवार ने कहा है कि उन्हें दिल का दौरा पड़ने के बाद यहां भर्ती कराया गया था। पीडी हिंदुजा अस्पताल ने गुरुवार को बयान जारी कर कहा था कि जोशी गंभीर रूप से बीमार हैं। उन्हें आईसीयू में रखा गया है। शिवसेना के दिग्गज नेता जोशी को पिछले साल मई में भी ब्रेन हैमरेज के बाद इसी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जोशी 1995 से 1999 तक राज्य के मुख्यमंत्री रहे। वो अविभाजित शिवसेना से राज्य में शीर्ष पद पर आसीन होने वाले पहले नेता बने। वह संसद सदस्य के रूप में भी चुने गए और 2002 से 2004 तक लोकसभा अध्यक्ष रहे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 February 2024

new delhi, Earlier governments ,Prime Minister

अहमदाबाद/नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पिछली सरकारों पर निशाना साधते हुए कहा कि पहले की सरकारें ग्रामीण अर्थव्यवस्था की जरूरतों को टुकड़ों में देखती थीं। हम गांव के हर पहलू को प्राथमिकता देते हुए काम को आगे बढ़ा रहे हैं। प्रधानमंत्री गुरुवार को अहमदाबाद में गुजरात कॉपरेटिव मिल्क मार्केटिंग फेडरेशन (जीसीएमएमएफ) के स्वर्ण जयंती समारोह को संबोधित कर रहे थे।   प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार का जोर अन्नदाता किसानों को ऊर्जादाता बनाने के साथ ही उर्वरकदाता बनाने पर भी है। उन्होंने कहा कि हमारा फोकस छोटे किसान का जीवन बेहतर करने, पशुपालन का दायरा बढ़ाने, पशुओं का स्वास्थ्य बेहतर करने, गांव में पशुपालन के साथ ही मछलीपालन और मधुमक्खी पालन को प्रोत्साहित करने पर केंद्रित है। महात्मा गांधी के कथन को याद करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत की आत्मा गांवों में बसती है। विकसित भारत के निर्माण के लिए भारत की ग्रामीण अर्थव्यवस्था का सशक्त होना जरूरी है।   उन्होंने कहा कि हमने पहली बार पशुपालकों और मछली पालकों को भी किसान क्रेडिट कार्ड की सुविधा दी है। किसानों को ऐसे आधुनिक बीज दिए हैं, जो जलवायु परिवर्तन का मुकाबला कर सकें। भाजपा सरकार राष्ट्रीय गोकुल मिशन जैसे अभियानों के माध्यम से दुधारू पशुओं की नस्ल सुधारने का भी काम कर रही है। प्रधानमंत्री ने कहा कि हम किसान कल्याण सुनिश्चित करने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं। सरकार ने देश भर में 60,000 से अधिक अमृत सरोवर बनाए हैं। इसी पहल से न सिर्फ किसानों को फायदा होगा, बल्कि ग्रामीण अर्थव्यवस्था भी मजबूत होगी। हमारा लक्ष्य देश के छोटे किसानों तक भी आधुनिक तकनीक और उसकी जानकारी पहुंचाना है।   प्रधानमंत्री ने गुजरात कॉपरेटिव मिल्क मार्केटिंग फेडरेशन को स्वर्ण जयंती की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि गुजरात के गांवों ने मिलकर 50 वर्ष पहले जो पौधा लगाया था वो आज विशाल वटवृक्ष बन गया है। उन्होंने कहा कि भारत की आजादी के बाद देश में बहुत से ब्रांड बने, लेकिन अमूल जैसा कोई नहीं। आज अमूल भारत के पशुपालकों के सामर्थ्य की पहचान बन चुका है। उन्होंने कहा कि छोटे-छोटे पशुपालकों की ये संस्था आज जिस बड़े पैमाने पर काम कर रही है, वही संगठन और सहकार की शक्ति है।   प्रधानमंत्री ने कहा कि यह ‘सरकार’ और ‘सहकार’ का अद्भुत तालमेल है कि भारत दुनिया का सबसे बड़ा दूध उत्पादक देश बनकर उभरा है। आज भारत में करीब 8 करोड़ लोग सीधे तौर पर डेयरी सेक्टर से जुड़े हुए हैं। उन्होंने कहा कि हम आज दुनिया के सबसे बड़े दूध उत्पादक देश हैं। भारत के डेयरी सेक्टर से 8 करोड़ लोग सीधे जुड़े हुए हैं। पिछले 10 साल में ही भारत में दूध उत्पादन में करीब 60 प्रतिशत वृद्धि हुई है। पिछले 10 वर्षों में प्रति व्यक्ति दूध उपलब्धता भी करीब 40 प्रतिशत बढ़ी है। दुनिया मे डेयरी सेक्टर सिर्फ 2 प्रतिशत की दर से आगे बढ़ रहा है। जबकि भारत में डेयरी सेक्टर 6 प्रतिशत की दर से आगे बढ़ रहा है।   प्रधानमंत्री ने महिलाओं को भारत के डेयरी सेक्टर की असली रीढ़ बताते हुए कहा कि आज अमूल सफलता की जिस ऊंचाई पर है, वो सिर्फ और सिर्फ महिला शक्ति की वजह से है। उन्होंने कहा कि भारत को विकसित बनाने के लिए भारत की प्रत्येक महिला की आर्थिक शक्ति बढ़नी आवश्यक है, इसलिए हमारी सरकार आज महिलाओं की आर्थिक शक्ति बढ़ाने के लिए भी चौतरफा काम कर रही है। मुद्रा योजना के तहत सरकार ने जो 30 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा की मदद दी है, उसकी करीब 70 प्रतिशत लाभार्थी बहन-बेटियां ही हैं।   उन्होंने कहा कि मुद्रा योजना के तहत सरकार द्वारा 30 लाख करोड़ रुपये की राशि वितरित की गई है। विशेष रूप से, इस योजना के तहत लगभग 70 प्रतिशत लाभार्थी महिलाएं हैं। पिछले 10 वर्षों के दौरान महिला स्वयं सहायता समूहों (एसएचजी) से जुड़ी महिलाओं की संख्या 10 करोड़ से अधिक हो गई है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 February 2024

new delhi, ED summons, seventh time

नई दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को दिल्ली शराब घोटाले में सातवीं बार समन भेजा है। ईडी ने केजरीवाल को सोमवार को पूछताछ के लिए बुलाया है। ईडी मुख्यमंत्री को इससे पहले भी छह बार समन भेज चुकी है, लेकिन वह किसी न किसी वजह से ईडी के समक्ष पूछताछ के लिए पेश नहीं हुए। उल्लेखनीय है कि केंद्रीय जांच एजेंसी ने अरविंद केजरीवाल को पिछले साल 2 नवंबर, 21 दिसंबर और इस वर्ष 3 जनवरी, 18 जनवरी और 2 फरवरी को भी पूछताछ के लिए समन भेजा था। इस मामले में दिल्ली के पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह अभी जेल में हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 February 2024

patna, Road accident , Lakhisarai, Bihar

पटना। बिहार के लखीसराय जिले में रामगढ़ चौक थाना चौक क्षेत्र के झुलौना गांव के पास आज (बुधवार) सुबह ट्रक और सीएनजी टैंपो की सीधी टक्कर में नौ लोगों की मौत हो गई। इस हादसे में घायल पांच लोगों की हालत नाजुक है। इस टक्कर में टैंपो के परखच्चे उड़ गए । टैंपो में कुल 14 लोग सवार थे। इनमें से आठ की मौत घटनास्थल पर हो गई । एक व्यक्ति ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। घायलों की हालत को देखते हुए उन्हें सदर अस्पताल से पीएमसीएच पटना रेफर किया गया है। मृतकों में टैंपो ड्राइवर मनोज कुमार भी शामिल है।   हताहत मनोज कुमार के बहनोई और प्रत्यक्षदर्शी अनिल मिस्री घटना का विवरण बताया है। उन्होंने कहा कि मनोज को सूचित किया गया था कि कुछ लोगो को रिजर्व कर हलसी से लखीसराय लाना है। हलसी से लखीसराय आने के दौरान झूलौना के पास यह हादसा हो गया। हादसे में 14 लोग जख्मी हो गए। इनमें आठ लोगों की मौत हो गई । बाकी छह लोगों को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहां पर एक व्यक्ति की मौत हो गई । गंभीर रूप से घायलों को पीएमसीएच पटना रेफर किया गया है। सभी की स्थिति नाजुक है। प्रत्यक्षदर्शी अनिल तेतरहाट थाना क्षेत्र के महिसोना गांव निवासी हैं। नगर थानाध्यक्ष सह इंस्पेक्टर अमित कुमार ने बताया की टैंपो पर सवार सभी लोग हलसी से लखीसराय आ रहे थे । मृतकों के परिजन मुंगेर में रहते हैं। सभी को सूचित कर दिया गया है। परिजनों के पहुंचने के बाद ही पता चलेगा कि हलसी से यह लोग कहां जा रहे थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 February 2024

new delhi, Government ,protesting farmers

नई दिल्ली। केन्द्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री अर्जुन मुंडा ने किसानों से अपील की है कि वे पांचवें दौर की वार्ता के लिए आगे आएं। एक बयान में मंत्री ने कहा कि सरकार मामले का समाधान चाहती है। वे किसानों से अनुरोध करते हैं कि शांति बनाए रखें।   मुंडा ने बुधवार को एक बयान में कहा कि सरकार चौथे दौर के बाद पांचवे दौर की वार्ता में सभी मुद्दे जैसे की न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) की मांग, फसल विविधीकरण, पराली का विषय, एफआईआर पर बातचीत के लिए तैयार है। बातचीत के जरिए ही समाधान निकाला जा सकता है। वे दोबारा किसान नेताओं को चर्चा के लिए आमंत्रित करते हैं। उल्लेखनीय है कि केन्द्र सरकार और किसानों के बीच हुई चौथे दौर की वार्ता भी विफल रही है। सरकार की ओर से दिए प्रस्तावों को किसान संगठनों ने मानने से मना कर दिया है और प्रदर्शन तेज करने की धमकी दी है। दर्शन कर रहे पंजाब धड़े के किसानों को संयुक्त किसान मोर्चा का भी साथ मिला है। किसान संगठन एमएसपी के मुद्दे पर कोई समझौता करना नहीं चाहते हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 February 2024

kanpur, Without caste census,  Rahul Gandhi

कानपुर। भाजपा पर तीखा प्रहार करते हुए कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष एवं सांसद राहुल गांधी ने बुधवार को कानपुर के घंटाघर चौराहे पर जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि देश में जातीय जनगणना के बाद ही न्याय मिल पाएगा। चाहे जितना चिल्लाओ इस सरकार में रोजगार नहीं मिलेगा। आपको सताया जा रहा है। भर्ती परीक्षा के पेपर लीक हो रहे हैं। मोदी एवं योगी सरकार में युवाओं को रोजगार, महिलाओं एवं किसानों को न्याय पुलिस और न्यायालयों से नहीं मिल रहा है। पिछड़ो, दलितों एवं आदिवासियों को किनारे कर दिया गया है। राम मंदिर के उद्घाटन के मौके पर देश के राष्ट्रपति को नहीं जाने दिया गया। वहां पिछड़ा, दलित और आदिवासी नहीं पहुंचे। वहां दिखाई दिए, अडानी और अम्बानी सहित देश के अन्य पंद्रह प्रतिशत के लोग ही वहां ऐसे मौके पर दिखे। देश में 85 प्रतिशत के लोगों को किनारे कर दिया गया है। महेज पन्द्रह प्रतिशत वालों का अब कब्जा हो चुका है। अब बहुत आवश्यक हो गया है कि देश में जातीय जनगणना होना चाहिए। जिसके बाद ही देश की जनता को न्याय मिल पाएगा। हम देश की जनता को उनका हक दिलाने के लिए देश भर का दौरा कर रहें है। जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि सभी कार्यकर्ताओं को धन्यवाद देना चाहता हू जो हमे सुनने के लिए इतनी भारी संख्या में यहां पहुंचे। इसके बाद राहुल गांधी सीधे एयरपोर्ट के लिए रवाना हो गए। बतादें कि राहुल गांधी यात्रा लगभग 28 किलोमीटर तय की गई थी लेकिन कतिपय कारणों से उसे महज दो किलोमीटर में ही सम्पन्न करा दिया गया। इस मौके जिला अध्यक्ष कांग्रेस नौशाद आलम मंसूरी, कांग्रेसी नेता अजय कपूर, अम्बुज शुक्ला, हरि प्रकाश अग्निहोत्री, टिल्लू ठाकुर, महेन्द्र सिंह समेत हजारों कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 February 2024

new delhi, ED arrests , Lawrence Bishnoi gang case

नई दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने लॉरेंस बिश्नोई गिरोह एवं अन्य के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गैंगस्टर सुरेंद्र सिंह उर्फ चीकू को गिरफ्तार किया है।   आधिकारिक सूत्रों ने बुधवार को बताया कि प्रवर्तन निदेशालय ने लॉरेंस बिश्नोई गिरोह और अन्य के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग मामले की जांच के तहत सुरेंद्र सिंह उर्फ चीकू को गिरफ्तार किया है। चीकू को पंचकुला में धन शोधन निवारण अधिनियम 2002 (पीएमएलए) की विशेष अदालत के समक्ष पेश किया गया। अदालत ने उसे पांच दिन के लिए ईडी की हिरासत में भेज दिया है।   उल्लेखनीय है कि केंद्रीय जांच एजेंसी ने 5 दिसंबर, 2023 को हरियाणा और राजस्थान में गैंगस्टर लॉरेंस विश्नोई गिरोह और खालिस्तानी आतंकी समूहों के नजदीकी गूर्गे चीकू और अन्य से संबंधित 13 परिसरों पर छापेमारी की थी। ईडी का आरोप है कि चीकू ने अपने सहयोगियों के जरिये अवैध खनन, शराब और टोल व्यवसाय में अपराध से मिली रकम का निवेश किया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 February 2024

kanpur, Rahul Gandhi, cornered Modi government

कानपुर। कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने हर साल दो करोड़ युवाओं को नौकरी देने के वादे पर बुधवार को मोदी सरकार को जमकर घेरा। राहुल ने कहा कि नौकरी का वादा करने वाले लोग सत्ता में आने के बाद युवाओं को ही भूल गए। रोजगार के नाम पर लाई गई अग्निवीर योजना भी युवाओं और सैनिकों के साथ एक धोखा है। शहर के घंटाघर में राहुल गांधी ने अपनी भारत जोड़ो न्याय यात्रा की एक सभा में कहा कि अग्निवीर योजना युवाओं को सेना में शामिल होने का रास्ता बंद कर रही है। यह योजना युवाओं को धोखा दे रही है। उन्होंने कहा कि देश के युवा रोते और चिल्लाते हुए रोजगार मांग रहे हैं लेकिन उन्हें बदले में लाठियों से इनाम दिया जा रहा है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा में दलित, पिछड़े नहीं जा सके, यही इनकी सामाजिक समरसता है। कांग्रेस आएगी तो इन्हीं दलित-पिछड़ों व अल्पसंख्यकों यानी 90 प्रतिशत का राज हो जाएगा। आज करीब 90 प्रतिशत वही आबादी परेशान है और इनकी बड़ी जगहों पर कहीं भी भागीदारी नहीं है। उन्होंने कहा कि नफरत की बाजार में मोहब्बत की दुकान लेकर आए हैं। यह देश नफरत नहीं, भाईचारा, मोहब्बत एक-दूजे की मदद का है। वर्तमान दौर में पिछड़े, दलित, आदिवासियों को न्याय नहीं मिल रहा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 February 2024

jammu, Prime Minister , Jammu and Kashmir

जम्मू। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को जम्मू में एम्स का उद्घाटन करने के साथ ही शिक्षा, रेल, सड़क, विमानन, पेटोलियम तथा नागरिक सुविधाओं और बुनियादी ढांचे से संबंधित लगभग 32 हजार करोड़ की विकास योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया। इन परियोजनाओं से जम्मू-कश्मीर के विकास को और अधिक पंख लगेंगे। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने स्थानीय मौलाना आजाद स्टेडियम में आयोजित समारोह में जम्मू कश्मीर के लिए 32 हजार करोड़ की विकास योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) उद्घाटन साम्बा जिले के विजयपुर में 1661 करोड़ रुपये से बने अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) का प्रधानमंत्री ने लोकार्पण किया। यह एम्स 226.84 एकड़ में फैला है। इस एम्स के बनने से जम्मू-कश्मीर सहित पंजाब व हिमाचल के लोगोें को भी स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ मिलेगा। एम्स में 30 जनरल और 20 सुपर स्पेशियलिटी विभाग होंगे। पहले चरण में लगभग तीस से अधिक जनरल और सुपर स्पेशियलिटी विभागों में ओपीडी सेवाएं शुरू की जा रही है, जो 1 मार्च से शुरू होंगी। पहले चरण में एम्स में आपात सेवाएं शुरू नहीं की जाएंगी। अगले छह माह में एम्स पूरी तरह से काम करने लगेगा।187 सृजित पदों में से 85 संकाय सदस्यों की नियुक्ति कर ली गई है और बाकी की भर्ती जारी है। पहले चरण में 750 बिस्तर स्थापित किए जाएंगे। बाद में इसे बढ़ाकर 900 से अधिक बिस्तर करने का प्रस्ताव है। एम्स प्रशासन प्वाइजिंग (जहर) सूचना व प्रबंधन प्रणाली स्थापित करेगा। इसमें सर्पदंश और दूसरे जहर के मामलों के लिए जिला स्तर पर टेलिमेडिसिन के माध्यम से एम्स विशेषज्ञों द्वारा तत्काल उचित चिकित्सा सलाह मुहैया करवाई जाएगी। इन रेल परियोजनाओं का किया लोकार्पण प्रधानमंत्री मोददी ने जम्मू कश्मीर में बनिहाल-खड़ी-सुंबड़-संगलदान (48 किलोमीटर) रेल लाइन और बारामूला-श्रीनगर-बनिहाल-संगलदान खंड (185.66 किलोमीटर) के बीच नवविद्युतीकृत सहित कई रेल परियोजनाओं का लोकार्पण किया। प्रधानमंत्री ने पहली इलेक्ट्रिक ट्रेन और संगलदान स्टेशन तथा बारामूला स्टेशन के बीच रेल सेवा को भी हरी झंड़ी दिखाई। बनिहाल-खड़ी-सुंबड़-संगलदान का शुरू होना महत्वपूर्ण है। भारत की सबसे लंबी रेलवे परिवहन सुरंग टी-50 (12.77) खड़ी-सुंबड़ के बीच इसी हिस्से में स्थित है। इस ट्रैक पर अब इलेक्ट्रिकल इंजन वाली ट्रेन तेज गति से चल सकेंगी। यहां रेलवे ने जापान की तकनीक पर आधारित ट्रैक तैयार किया है। उल्लेखनीय है कि ऊधमपुर-श्रीनगर-बारामुला रेल लिंक परियोजना कश्मीर को पूरे देश से रेल नेटवर्क से जोड़ने वाली एक महत्वाकांक्षी परियोजना है। बनिहाल-खारी-सुम्बर-संगलदान रेलवे ट्रैक पर ट्रेन चलना सामरिक दृष्टि से भी भारत के लिए काफी महत्वपूर्ण है। इससे जम्मू-कश्मीर के समग्र आर्थिक विकास को बढ़ावा मिलेगा और रेलवे के अन्य मार्गाे से कनेक्टिविटी भी बढ़ जाएगी। 7874 करोड़ की सड़क परियोजनाओं का किया शिलान्यास प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने राज्य में 7874 करोड़ की सड़क परियोजनाओं का भी शिलान्यास किया। इसमें जम्मू को कटरा से जोड़ने वाले दिल्ली-अमृतसर-कटड़ा एक्सप्रेसवे के दो पैकेज (44.22 किलोमीटर) सहित महत्वपूर्ण सड़क परियोजनाओं भी शामिल है। इसके अलाव श्रीनगर रिंग रोड को चार लेन का बनाने के लिए चरण दो, राष्ट्रीय राजमार्ग-1 के 161 किलोमीटर लंबे श्रीनगर-बारामूला-उड़ी खंड के उन्नयन के लिए पांच पैकेज तथा राष्ट्रीय राजमार्ग-444 पर कुलगाम बाईपास और पुलवामा बाईपास का शिलान्यास किया। दिल्ली-अमृतसर-कटड़ा एक्सप्रेसवे के दोनों पूरा हो जाने पर तीर्थयात्रियों को माता वैष्णो देवी की यात्रा सुगम होगी और क्षेत्र में आर्थिक विकास को भी बढ़ावा मिलेगा। श्रीनगर रिंग रोड़ को चार लेन करने के चरण दो में मौजूदा सुंबल-वायुल एनएच-1 को अपग्रेड करना भी शामिल है। 24.7 किलोमीटर लंबी ब्राउनफील्ड परियोजना श्रीनगर शहर और उसके आसपास यातायात की भीड़ को कम करेगी। इससे मानसबल झील और खीर भवानी मंदिर जैसे लोकप्रिय धार्मिक पर्यटन स्थलों तक संपर्क बेहतर होगा और लेह व लद्दाख की यात्रा के दौरान समय में भी कमी आएगी। हवाई अड्डा के नए टर्मिनल भवन की आधारशिला रखी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज जम्मू हवाई अड्डे के नए टर्मिनल भवन की भी आधारशिला भी रखी। 40 हजार वर्गमीटर क्षेत्र में फैला नया टर्मिनल भवन भीड़भाड़ के दौरान दो हजार यात्रियों को आधुुनिक सुविधाओं से लैस सुविधाएं देगा।इससे हवाई सेवा और अधिक मजबूत होगी तथा पर्यटन और व्यापार हो भी बढ़ावा मिलेगा।   सीयूएफ पेट्रोलियम डिपो प्रधानमंत्री ने जम्मू में सीयूएफ (कमान यूजर फैसिलिटी) पेट्रोलियम डिपो विकसित करने की परियोजना की आधारशिला भी रखी। लगभग 677 करोड़ से विकसित होने वाले इस आधुनिक पूर्ण संचलित डिपो में मोटर स्पिरिट, हाई स्पीड डीजल, सुपीरियर केरोसिन आयल, एविएशन टर्बाइन इंधन, इथेनाल, बायोडीजल और विंटर ग्रेड एचएसडी के भंडारण के लिए लगभग एक लाख किलोलीटर की भंडारण क्षमता होगी। अन्य परियोजनाएं प्रधानमंत्री ने जम्मू कश्मीर में नागरिक बुनियादी ढांचे को मजबूत बनाने के लिए 3150 करोड़ की कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास भी किया। इनमें सड़क और पुल, ग्रिड स्टेशन, रिसीविंग स्टेशन, ट्रांसमिशन लाइन परियोजनाएं और सीवेज उपचार संयंत्र, कईं कालेज भवन, आधुनिक नरवाल मंडी, कठुआ में औषधि प्रयोगशाला, गांदरबल और कुपवाड़ा में 224 फ्लैट शामिल हैं। जिन परियोजनाओं की आधारशिला रखी उनमें औद्योगिक एस्टेट का विकास, जम्मू स्मार्ट सिटी के एकीकृत कमान और नियंत्रण केंद्र के लिए डेटा सेंटर/आपदा रिकवरी केंद्र, 62 सड़क परियोजनाओं और 42 पुलों का उन्नयन, शामिल है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 February 2024

new delhi,Tirupati established , cleanest state

नई दिल्ली। आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिले का सबसे बड़ा शहरी स्थानीय निकाय (यूएलबी) तिरुपति नगर निगम ने स्वच्छ सर्वेक्षण 2023 रैंकिंग में 1 लाख से अधिक आबादी वाले सबसे स्वच्छ शहरों में 8 वां स्थान हासिल किया है। इसके साथ ही तिरूपति ने 5-स्टार कचरा मुक्त शहर और वाटर प्लस रेटिंग हासिल की है। आवास एवं शहरी कार्य मंत्रालय की ओर से जारी एक विज्ञप्ति में कहा गया है।         तिरूपति नगर निगम टीम ने स्वच्छता सेवाएं सुनिश्चित करने के लिए 1000 स्वच्छता कर्मचारियों को नियोजित किया है। 100 प्रतिशत डोर-टू-डोर कचरा संग्रहण का लक्ष्य हासिल किया।तिरूपति में एकत्र किए गए सभी कचरे को संबंधित अपशिष्ट प्रसंस्करण और प्रबंधन सुविधाओं में वैज्ञानिक रूप से संसाधित किया।         शहर में वास्तविक समय में घर-घर कचरा संग्रहण ट्रैकिंग के लिए आरएफआईडी तकनीक के साथ एक ऑनलाइन अपशिष्ट प्रबंधन प्रणाली लगाया गया है। तिरूपति में प्रतिदिन लगभग 60 टन सूखा कचरा और 1 टन घरेलू खतरनाक कचरा उत्पन्न होता है। कचरे को व्यवस्थित रूप से पुनर्चक्रण योग्य और गैर-पुनर्चक्रण योग्य वस्तुओं में अलग किया जाता है। रिसाइकिल योग्य सामग्री दोबारा रिसाइकिल करने के लिए संस्थाओं को बेची जाती है।         तिरूपति प्रतिदिन 2 टीपीडी प्लास्टिक कचरा उत्पन्न करता है। तिरुपति ने एक अनोखे तरीके से प्लास्टिक कचरे को रि-साइक्लिंग के लिए एक वॉशिंग प्लांट और एक एग्लोमरेटर मशीन ने नगर निगम टीम को एक वर्ष के दौरान 263.29 टन प्लास्टिक दाने बेचने में सक्षम बनाया है।         थुकिवकम में लगे बायो ग्रीन सिटी से 50 टीपीडी जैविक कचरे को बायो-मीथेन गैस में परिवर्तित करता है। उच्च फाइबर वाले जैविक कचरे का उपयोग कृषि के लिए गुणवत्तापूर्ण खाद बनाने के लिए किया जाता है, जबकि उत्पन्न 1728 घन मीटर बायो-गैस प्रतिदिन, खाना पकाने, ऊर्जा और वाहन ईंधन के लिए होटलों और उद्योगों को बेची जाती है। संयंत्र से प्रतिदिन 5 टन खाद भी प्राप्त होती है।                 तिरुपति में प्रतिदिन 20-25 टन निर्माण कार्य से जो मलबा निकतला है उसे प्रसंस्करण के बाद संसाधित सामग्री का उपयोग कर्ब स्टोन, टाइल्स, पेवर ब्लॉक इत्यादि के निर्माण के लिए कच्चे माल के रूप में किया जाता है। बाद में नगर निगम द्वारा फुटपाथ, सड़क के किनारे, पार्क आदि में विकासात्मक कार्यों के लिए उपयोग किया जाता है।         तिरुपति में रामापुरम डंपसाइटको अब पूरी तरह से उपचारित कर लिया गया है। इसके साथ 5.65 एकड़ भूमि को पुनः प्राप्त कर लिया गया है। जो प्रभावी अपशिष्ट प्रबंधन, बढ़ी हुई नागरिक जागरूकता और समावेशी स्वच्छता की दृष्टि के प्रति तिरुपति की प्रतिबद्धता इसे स्वच्छता पहल में एक अग्रणी शहर के रूप में स्थापित करती है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 February 2024

bokaner,  Panchayat to Parliament, Shah

बीकानेर। केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने मंगलवार को बीकानेर में आयोजित कलस्टर बैठक में बीकानेर संभाग के बीकानेर, श्रीगंगानगर और चुरू लोकसभा की प्रबंधन समिति, चुनाव समन्वय समिति और लोकसभा कोर कमेटी मंत्री, विधायक, पूर्व विधायक, सांसद क्षेत्र के वरिष्ठ पदाधिकारी सहित 250 प्रमुख कार्यकर्ताओं को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के अबकी बार चार साै पार के लक्ष्य को जीत में तब्दील करने का मंत्र दिया। स्वागत भाषण में केन्द्रीय कानून मंत्री अर्जुनराम मेघवाल ने अमित शाह का अभिनंदन किया। मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा, प्रदेशाध्यक्ष सीपी जोशी, लोकसभा प्रभारी सतीश पूनिया, पूर्व उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़, शहर जिलाध्यक्ष विजय आचार्य, जालम सिंह भाटी ने पुष्पगुच्छ भेंट कर गृहमंत्री अमित शाह का स्वागत किया। इस मौके पर केन्द्रीय गृहमंत्री शाह ने कहा कि मेरा सौभाग्य है कि लोकसभा चुनाव में तीन सीट देने वाले बीकानेर से इस कलस्टर बैठक की शुरुआत हो रही है। शाह ने कहा कि दुनिया में बहुत सारे राजनीति दल हैं पर भारतीय जनता पार्टी ऐसा दल है, जिसका चुनाव जीतने का कारण नेता नहीं कार्यकर्ता है। कांग्रेस आज चंद नेताओं की पार्टी बनकर रह गई, जिसके पास अब कार्यकर्ता नहीं बचे। उन्होंने कहा कि राजस्थान में कांग्रेस के पास ऐसा कोई नेता नहीं है, जिसको राज्यसभा भेज सके। इसलिए सोनिया गांधी को राजस्थान से राज्यसभा भेजा जा रहा है। कांग्रेस का हाल इतना बुरा है। 18 राज्यों में कांग्रेस विपक्ष में भी नहीं बची है। हम विचारधारा की पार्टी हैं। हमारा लक्ष्य पार्टी बनाना नहीं है। हमारा लक्ष्य देश को सक्षम बनाने का है। आज 17 प्रदेशों में हमारी सरकार है। पंचायत से पार्लियामेंट तक आज कमल ही कमल है। शाह ने कहा कि अबकी बार चार सौ पार का नारा मन को सुकून देने वाला है पर यह लक्ष्य तभी पूरा होगा, जब हम अपने बूथ पर मजबूत रहेंगे। हर नेता और कार्यकर्ता को अपने बूथ को मजबूत करने पर विशेष जोर देना होगा। नव मतदाता आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की नीतियों के साथ है। जैसे महाभारत के युद्ध में कौरव और पांडव दो खेमे थे, वैसे ही आज चुनाव से पहले दो खेमे हैं। इनमें से एक खेमा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भाजपानीत राजग है और दूसरा कांग्रेस के नेतृत्व वाला ‘इंडिया’ गठबंधन है। ‘इंडिया’ गठबंधन ऐसी पार्टियों का गठबंधन है, जो वंशवाद, भ्रष्टाचार, तुष्टिकरण की पोषक हैं, जबकि भाजपा नीत राजग सभी दलों का गठबंधन है, जो राष्ट्र के सिद्धांतों पर चलता है। शाह ने कहा कि हम देश के लोगों को यह तय करना होगा कि वे इस बार दोनों में से किसे जनादेश देना चाहते हैं। उन्होंने इन पार्टियों को चलाने वाले परिवारों की दूसरी, तीसरी और चौथी पीढ़ी की ओर इशारा करते हुए कहा कि विपक्ष में ‘टू-जी’, ‘थ्री-जी’ और ‘फोर-जी’ पार्टियों की भरमार है। बैठक में मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सीपी जोशी, केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल, पूर्व प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया, पूर्व उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़, केबिनेट मंत्री गजेंद्र सिंह खींवसर, सुमित गोदारा, अविनाश गहलोत, बीकानेर संभाग प्रभारी सीआर चौधरी, संभाग सह प्रभारी श्रवण सिंह बगड़ी, सांसद निहालचंद मेघवाल, राहुल कस्वा उपस्थित रहे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 February 2024

mumbai, Maratha reservation, Manoj Jarange Patil

मुंबई। मराठा नेता मनोज जारांगे पाटिल ने मंगलवार को महाराष्ट्र विधानसभा में पारित 10 फीसदी मराठा आरक्षण को अमान्य बताया है। उन्होंने कहा कि उनकी भूख हड़ताल जारी रहेगी। साथ ही बुधवार को वे मराठा नेताओं के साथ बैठक कर राज्य सरकार के विरुद्ध आंदोलन की नई दिशा तय करेंगे।   मराठा नेता मनोज जारांगे पाटिल ने कहा कि राज्य सरकार मराठा समाज को मुर्ख बनाने का प्रयास कर रही है। मराठा समाज को पता है कि 50 फीसदी से ज्यादा आरक्षण सुप्रीम कोर्ट में नहीं टिकेगा। इसी वजह से उन्होंने मराठा समाज को ओबीसी कोटे से आरक्षण देने की मांग की थी। साथ ही जिन मराठा समाज के लोगों को कुनबी जाति के निजामकालीन सबूत मिले हैं, उसी आधार पर मराठा के लोगों को सगा संबंधी बताकर कुनबी जाति का प्रमाणपत्र दिया जाए। उनकी इसी मांग के आधार पर सरकार की ओर से दो बार आश्वासन देकर उनकी भूख हड़ताल खत्म करवाई थी। इसी नाम पर आज का विधानमंडल का विशेष अधिवेशन राज्य सरकार ने नियोजित किया था। लेकिन आज विधानमंडल के विशेष अधिवेशन में अलग ही निर्णय लिया गया है, जो मराठा समाज को मान्य नहीं है। इसी वजह से वे अब सरकार के विरुद्ध आंदोलन की भूमिका तय करेंगे और ओबीसी कोटे से आरक्षण लेकर रहेंगे।   मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने आज विधानसभा में कहा कि मराठा समाज को सगे संबंधी के आधार पर कुनबी प्रमाणपत्र दिए जाने को लेकर छह हजार आपत्तियां आई हैं। मुख्यमंत्री के रूप में वे किसी भी जाति का न तो पक्ष ले सकते हैं और ना ही किसी को नुकसान पहुंचा सकते हैं। इसलिए आंदोलन करने वालों को सरकार की भूमिका समझनी चाहिए। सरकार किसी भी कीमत पर मराठा समाज को दिए गए आरक्षण को नुकसान नहीं पहुंचने देगी। इसके लिए वकीलों की फौज सुप्रीम कोर्ट में राज्य सरकार की ओर से तैनात की जाएगी। लेकिन मनोज जारांगे पाटिल अपनी भूमिका पर अडिग हैं और उन्होंने अपना आंदोलन जारी रखने की घोषणा की है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 February 2024

dehradoon, Curfew lifted , Banbhulpura

देहरादून। उत्तराखंड के हल्द्वानी में दंगा प्रभावित क्षेत्र बनभूलपुरा से मंगलवार सुबह पांच बजे से कर्फ्यू हटा दिया गया। कर्फ्यू लगाने से आम लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा था। लोगों का जीवन ठहर सा गया था। कर्फ्यू हटने के बाद अब आम जनजीवन पटरी पर लौटेगा। नैनीताल की जिलाधिकारी वंदना सिंह ने आदेश जारी करते हुए कहा कि बीती आठ फरवरी को बनभूलपुरा क्षेत्र में घटित घटना के दृष्टिगत कानून और शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए धारा-144 के अंतर्गत हल्द्वानी के बनभूलपुरा क्षेत्र में कर्फ्यू की घोषणा की गई थी। इस आदेश में कहा है कि बाद में बनभूलपुरा क्षेत्र में कर्फ्यू में ढील भी दी गई। वर्तमान परिस्थितियों में अब बनभूलपुरा में कर्फ्यू की जरूरत नहीं है, इसलिए धारा-144 के अंतर्गत निर्गत कर्फ्यू आदेश 20 फरवरी को प्रातः पांच बजे से समाप्त किया जाता है। शांति बनाए रखने की अपील- कर्फ्यू हटने के बाद मुस्लिम समाज के लोगों ने शांति बनाए रखने की अपील की है। कहा कि किसी के बहकावे में न आएं। माहौल खराब न करें। सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट करने से बचें। यह था मामला- आठ फरवरी का वो खतरनाक मंजर कोई शायद ही भूल पाएगा। उत्तराखंड के हल्द्वानी स्थित बनभूलपुरा में अवैध रूप से निर्मित मदरसे को ढहाने के बाद बीती आठ फरवरी को इलाके में हिंसा भड़क गई थी। स्थानीय निवासियों ने नगर निगम के कर्मियों व पुलिस पर पथराव किया था और पेट्रोल बम फेंके थे। इस कारण कई पुलिसकर्मियों को एक थाने में शरण लेनी पड़ी थी, जिसे भीड़ ने बाद में आग के हवाले कर दिया था। पुलिस के अनुसार, इस हिंसा में चार लोगों की मौत हुई थी और पुलिस एवं पत्रकारों सहित 100 से अधिक लोग घायल हुए थे। दो अन्य युवकों की मौत का कारण अलग था। इसका खुलासा पुलिस ने कर दिया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 February 2024

new delhi, Amrit Kaal, Prime Minister

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को कहा कि सदियों की गुलामी के बावजूद हमारी सांस्कृतिक चेतना नष्ट नहीं हुई। वह बीज के रूप में वर्षा ऋतु का इंतजार करती रही। आज आजादी के अमृत काल में भारत के उत्कर्ष का बीज अंकुरित हो रहा है। गीता में दी गई शिक्षा को दोहराते हुए उन्होंने कहा कि हमें इसके लिए परिश्रम करना होगा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को उत्तर प्रदेश के संभल में कल्कि धाम की आधारशिला रखी। इस दौरान उन्होंने कहा कि भविष्य में आने वाले अवतार को समर्पित यह पहला धाम है। इससे पता चलता है कि हम कैसे भविष्य के लिए तैयार रहते हैं। इस दौरान उन्होंने कल्कि धाम के आचार्य प्रमोद कृष्णम के कार्य की प्रशंसा की और कहा कि भाजपा सरकार के कार्यकाल में ही मंदिर निर्माण के लिए उन्हें जमीन मिली है। उन्होंने स्वयं को सौभाग्यशाली बताते हुए कहा कि बहुत से धार्मिक और विकास कार्यों की शुरुआत करने का उन्हें अवसर मिला है। उन्होंने कहा, “कई ऐसे अच्छे काम हैं, जो कुछ लोग मेरे लिए ही छोड़ कर चले गए हैं। आगे भी जितने अच्छे काम रह गए हैं, उनको भी संतों और जनता-जनार्दन के आशीर्वाद से हम पूरा करेंगे।” राम मंदिर का विशेष उल्लेख करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि रामलला विराजमान होने से अगले हजारों सालों की भारत की एक नई यात्रा का शुभारंभ हो रहा है। भगवान राम की तरह ही कल्कि अवतार भी हजारों वर्षों की रूपरेखा तय करेगा। हम ये कह सकते हैं कि कल्कि कालचक्र के परिवर्तन के प्रणेता भी हैं और प्रेरणास्रोत भी हैं। प्रधानमंत्री ने विकास और विरासत दोनों क्षेत्रों में हो रहे कार्यों में अपनी सरकार की उपलब्धि गिनाई। उन्होंने कहा कि भारत आज अनुसरण नहीं कर रहा बल्कि उदाहरण बन रहा है। भारत तकनीक और डिजिटल क्षेत्र में संभावनाओं के अवसर के रूप में उभर रहा है। देश में सकारात्मक सोच और ऊर्जा है। हमारी शक्ति अनन्त है और संभावनाएं अपार हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 February 2024

new delhi,Aam Aadmi Party , Enforcement Directorate

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी संस्थापक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के समक्ष इस बार भी पेश नहीं होंगे। आम आदमी पार्टी ने ईडी के समन को गैरकानूनी करार दिया है। दिल्ली शराब घोटाला मामले में अरविंद केजरीवाल को ईडी के सामने आज पेश होना था। ईडी ने केजरीवाल को 17 फरवरी को छठा समन भेजकर पूछताछ के लिए बुलाया था। यह समन कोर्ट के दखल के बाद जारी हुआ था। इससे पहले ईडी ने केजरीवाल को 2 फरवरी, 17 जनवरी, 3 जनवरी, 21 दिसंबर और 2 नवंबर को समन भेजा था। केजरीवाल पांचवें समन पर भी ईडी के समक्ष पेश नहीं हुए तो जांच एजेंसी ने राउज एवेन्यू कोर्ट में याचिका दायर की थी। कथित शराब घोटाला मामले में दिल्ली के पूर्व उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सदस्य संजय सिंह फिलहाल जेल में बंद हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 February 2024

guwahati, 10 workers kidnapped , Tinsukia

गुवाहाटी। असम-अरुणाचल सीमा पर तिनसुकिया की कोयला खदान में कार्यरत 10 कोयला खनिकों का अपहरण कर लिया गया। असम-अरुणाचल सीमा पर तिनसुकिया जिले के फिनाबोरो में 14 नंबर कोयला खदान है। सूत्रों ने बताया कि आज तड़के करीब 3.30 बजे एक आठ-नौ सदस्यीय संदिग्ध उग्रवादियों का दल आया और बंदूक के बल पर 10 मजदूरों को एक डंपर में बैठाकर अरुणाचल प्रदेश के ओल्ड लोंगताई की ओर ले गया। इस घटना के बारे में पुलिस की ओर से फिलहाल पुष्टि नहीं की गई है लेकिन आशंका जताई गई है कि यह अपहरण संदिग्ध उल्फा-स्वा और एनएससीएन कैडरों ने किया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 February 2024

lucknow, Salim Sherwani , accusing Akhilesh

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के पिछड़ा, दलित और अल्पसंख्यक (पीडीए) अभियान पर एक और गहरी चोट लगी है। पांच बार के सांसद रहे सपा के राष्ट्रीय महासचिव सलीम शेरवानी ने रविवार को पार्टी से इस्तीफा दे दिया। शेरवानी ने सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव पर मुसलमानों की उपेक्षा का आरोप लगाया है। अखिलेश को लिखी चिट्ठी में शेरवानी ने कहा कि पीडीए के नाम पर राजनीति हो रही है। मुसलमानों की उपेक्षा के कारण महासचिव पद से इस्तीफा दे रहा हूं। जल्द ही भविष्य का फैसला लूंगा। राज्यसभा के चुनाव में किसी मुसलमान को नहीं भेजा गया। बेशक मेरे नाम पर विचार नहीं होता लेकिन किसी मुसलमान को भी यह सीट मिलनी चाहिए थी। उन्होंने पत्र में लिखा कि मुझे लगता है सपा में रहते हुए मुसलमान की हालत में बहुत परिवर्तन नहीं हो सकता। इसके लिए मेरा इस्तीफा दे देना ही ठीक है। इसके बाद का निर्णय सोच विचार कर करूंगा। उल्लेखनीय है कि शेरवानी चार बार सपा और एक बार कांग्रेस के टिकट पर लोकसभा चुनाव जीत चुके हैं। वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले वह सपा छोड़कर कांग्रेस में चले गए थे। इसके बाद उनकी घर वापसी हो गई थी। इससे पहले वरिष्ठ नेता एवं विधानपरिषद सदस्य स्वामी प्रसाद मौर्य ने सपा महासचिव के पद से इस्तीफा दे दिया था। हालांकि मौर्य ने कहा था कि उन्होंने सिर्फ महासचिव पद से इस्तीफा दिया है, पार्टी से नहीं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 February 2024

new delhi, JP Nadda, BJP president

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के मद्देनजर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का कार्यकाल जून 2024 तक बढ़ा दिया गया है। दिल्ली के भारत मंडपम में आयोजित पार्टी की राष्ट्रीय परिषद ने कार्यकाल बढ़ाने से जुड़े प्रस्ताव को मंजूरी दे दी।   दरअसल, भाजपा संसदीय बोर्ड ने पिछले साल नड्डा के अध्यक्ष पद पर कार्यकाल को जून 2024 तक बढ़ाने का फैसला लिया था। संसदीय बोर्ड के इस फैसले को रविवार को दिल्ली में आयोजित दो दिवसीय राष्ट्रीय परिषद ने भी अपनी मंजूरी प्रदान कर दी। राष्ट्रीय परिषद में पेश एक अन्य प्रस्ताव के मुताबिक राष्ट्रीय अध्यक्ष के कार्यकाल को बढ़ाने और घटाने का फैसला लेने का अधिकार भाजपा संसदीय बोर्ड को दिया गया है। समय और परिस्थितियों के अनुसार यह निर्णय लिया जा सकता है। इसके साथ ही संसदीय बोर्ड के किसी सदस्य को हटाने और नया सदस्य नियुक्त करने का अधिकार भी पार्टी अध्यक्ष को होगा। तत्कालीन भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को केंद्र सरकार में मंत्री बनाए जाने के बाद जून 2019 में जेपी नड्डा पार्टी के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष बने थे। इसके बाद सांगठनिक चुनाव के जरिए 20 जनवरी 2020 को पूर्णकालिक अध्यक्ष बनाए गए। उनका कार्यकाल जनवरी 2024 में खत्म हो रहा था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 February 2024

new delhi, make India ,Prime Minister

 नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय परिषद की बैठक में केन्द्र सरकार की उपलब्धियों और विपक्ष की नाकामियों को गिनाते हुए आने वाले आम चुनाव में पार्टी कार्यकर्ताओं को 100 दिनों तक हर वोटर, लाभार्थी, वर्ग, समाज, पंथ, परंपरा तक पहुंचने का लक्ष्य दिया। साथ ही उन्होंने दोबारा सत्ता में वापसी पर विश्वास जताया और अगले कार्यकाल में भारत को दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था और 2047 तक देश को विकसित बनाने का वादा किया। प्रधानमंत्री ने विपक्षी गठबंधन और विशेषकर कांग्रेस पर परिवारवाद और भ्रष्टाचार को लेकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि कांग्रेस भाजपा से वैचारिक और सैद्धांतिक लड़ाई नहीं लड़ रही है बल्कि वह स्वयं उनसे (मोदी) लड़ रही है। मोदी को गाली देना उनकी आदत हो गई है। इस मुद्दे पर पार्टी के अंदर ही मतभेद है और पार्टी दो धड़ों में बंट गई है। भारतीय विदेश नीति से जुड़ी उपलब्धियां गिनाते हुए मोदी ने कहा कि दुनिया को अब समझ में आ रहा है कि भारत का विकास उसकी बेहतरी के लिए है। हाल की कतर और यूएई की यात्रा का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि पश्चिम एशिया में अब भारत के रिश्ते मजबूत हो रहे हैं। इन सबका श्रेय भाजपा सरकार को देते हुए प्रधानमंत्री ने अपनी सरकार की वापसी पर विश्वास जताया और कहा कि दुनिया भी अब मान रही है कि पार्टी दोबारा सत्ता में लौटेगी। इसी कारण से आम चुनाव से पहले ही उन्हें विभिन्न देशों से उनके यहां यात्रा के निमंत्रण प्राप्त हो रहे हैं। भाजपा के वरिष्ठ नेता मोदी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस भले ही वादे पूरा न करे लेकिन झूठे वादे करने में आगे है। देश की जनता को इसका एहसास हो गया है। जनता को अब भाजपा पर भरोसा है और पार्टी कार्यकर्ताओं को अपनी सरकार की उपलब्धियों के साथ अगले 100 दिनों तक जनता के बीच जाना है और पार्टी के लिए वोट करने की अपील करनी है। उन्होंने कहा कि देश की जनता को पहले लगता था कि सरकारें बदलती हैं लेकिन व्यवस्था नहीं बदलती। उनकी सरकार आने के बाद से यह सोच बदली है। आज सामाजिक न्याय की भावना के साथ सरकार हर व्यवस्था को बदल रही है। प्रधानमंत्री ने कहा कि देश अब अपने आप विकसित होने की सोच से आगे नहीं बढ़ रहा है। अब वे बड़े लक्ष्य लेकर चल रहा है। पिछले 10 साल साहसिक निर्णयों और भविष्यवादी नीतियों के लिए जाने गए हैं। हमने दशकों से अधूरे कार्यों को पूरा करने का साहस किया है। चाहे वह राम मंदिर का निर्माण हो, करतारपुर गलियारे का उद्घाटन हो, अनुच्छेद 370 को निरस्त करना हो या नई शिक्षा नीति का कार्यान्वयन हो, इन बदलावों का भारत के लोगों को लंबे समय से इंतजार था। अपने भाषण में विशेष उल्लेख करते हुए उन्होंने करतारपुर साहिब कोरिडोर के उदघाटन, अफगानिस्तान से सिख शरणार्थियों की वापसी और 25 दिसंबर को वीर बाल दिवस के तौर पर मनाए जाने का जिक्र किया। प्रधानमंत्री ने बताया कि मुस्लिमों को अब हज यात्रा करने में आसानी हो रही है। महिलाओं को बिना महरम (बिना किसी पुरुष रिश्तेदार) के यात्रा करने की अनुमति मिली है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 February 2024

new delhi, BJP government

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने पार्टी की केंद्र की सत्ता में फिर से वापसी पर विश्वास जताते हुए कहा कि नरेन्द्र मोदी फिर प्रधानमंत्री बनेंगे, इस बात में कोई शक नहीं है। शाह भाजपा की राष्ट्रीय परिषद के दो दिवसीय अधिवेशन में रविवार को पार्टी नेताओं को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने आरोप लगाया कि तुष्टीकरण की राजनीति के कारण कांग्रेस नेताओं ने राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा से दूरी बनाई। शाह ने विपक्ष के इंडी गठबंधन को परिवार के हितों को सर्वोपरि रखने वाली पार्टियों का एक प्रकार का विलय करार दिया और कहा कि इस वजह से वो आज हर चीज का विरोध करने लगे हैं। उन्होंने कहा कि मोदी के 10 वर्षों में आज देश विकसित भारत का स्वप्न लेकर आगे बढ़ रहा है। दूर-दूर तक इंडी गठबंधन को सत्ता प्राप्ति की संभावना नहीं दिखती है। भाजपा नेता ने कांग्रेस के साथ-साथ आम आदमी पार्टी को भी घेरा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने जल, नभ, थल हर जगह घोटाले किए और आज इंडी गठबंधन का नेतृत्व इसी कांग्रेस के हाथ में है। कांग्रेस इतना भ्रष्टाचार करती है तो साथी भला क्यों पीछे रहेंगे। आम आदमी पार्टी ने शराब घोटाला, मोहल्ला क्लीनिक और न जाने कितने घोटाले किए। इन्होंने लोगों के मेडिकल टेस्ट करने में भी घोटाला किया। इसी वजह से आज आम आदमी पार्टी का सारा नेतृत्व कोर्ट और एजेंसियों से दूर भाग रहा है। प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व के कालखंड को सबसे ज्यादा विकासप्रद बताते हुए शाह ने कहा कि अपने 75 साल के इतिहास में देश ने 17 लोकसभा चुनाव, 22 सरकारें और 15 प्रधानमंत्री देखे हैं। देश में हर सरकार ने अपने समय के अनुरूप विकास करने का प्रयास किया। इसमें कोई भ्रम नहीं है कि मोदी सरकार के पिछले 10 वर्षों में समग्र विकास हुआ। इससे पहले आज भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा, गृहमंत्री अमित शाह और रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने पार्टी की दो दिवसीय राष्ट्रीय परिषद की बैठक के दौरान दिल्ली के भारत मंडपम में प्रधानमंत्री मोदी को माला पहनाकर स्वागत किया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 February 2024

kolkata, Bengal Governor ,submits report

कोलकाता। पश्चिम बंगाल के राज्यपाल डॉ. सीवी आनंद बोस ने संदेशखाली पर एक रिपोर्ट केंद्रीय गृह मंत्रालय को सौंप दी है। रिपोर्ट में पुलिस पर उपद्रवी तत्वों से मिले होने का आरोप लगाया गया है। नई दिल्ली में राज्यपाल ने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से भी मुलाकात की। राजभवन के एक अधिकारी ने गुरुवार को यह जानकारी दी है।   संदेशखाली में महिलाएं सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस नेता शाहजहां शेख और उनके समर्थकों के कथित अत्याचारों के खिलाफ प्रदर्शन कर रही हैं। बोस ने रिपोर्ट में कहा है, 'संदेशखाली के लोग विशेष कार्य बल या विशेष जांच दल के गठन की मांग कर रहे हैं। मेरी राय में वहां स्थिति बेहद निंदनीय है।' राज्यपाल ने रिपोर्ट में कहा है कि पुलिस शिकायत दर्ज करने के बजाय स्थानीय लोगों को उपद्रवी तत्वों के साथ समझौता करने की सलाह दे रही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  15 February 2024

new delhi,Congress , Kheda

नई दिल्ली। कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने कहा कि स्वामीनाथन कमीशन की सिफारिशों के नाम पर मोदी सरकार ने सिर्फ किसानों को छला है।   खेड़ा ने बुधवार को पार्टी मुख्यालय में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान कहा कि स्वामीनाथन कमीशन की 201 सिफारिशें थी, जिसमें से संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) सरकार 175 सिफारिशें लागू कर चुकी थी। उसमें 26 सिफारिशें बची थीं। इसमें सबसे महत्वपूर्ण फसलों पर न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) से जुड़ी घोषणा थी। इसे कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने पूरा करने की घोषणा की है। खेड़ा ने कहा कि चुनाव प्रचार के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किसानों को एमएसपी देने का वादा किया था। इसे वह पूरा नहीं कर रहे हैं। एमएसपी को लेकर सुप्रीम कोर्ट में एक हलफनामा दाखिल हुआ। उसमें प्रधानमंत्री ने साफ कहा कि हम इस तरह की एमएसपी नहीं दे सकते, जिसमें इनपुट कॉस्ट इतनी ज्यादा हो। ऐसे में प्रधानमंत्री ने न सिर्फ अपना वादा तोड़ा बल्कि किसानों के रास्ते पर कील बिछवाकर और उन्हें उपद्रवी कहने से भी नहीं चूके। जब पिछली बार किसान 'तीन काले कानून' को लेकर धरना दे रहे थे, तब प्रधानमंत्री ने उनसे माफी मांगते हुए कहा था, ''मैं तीनों कानून वापस लेता हूं। एमएसपी की समस्या का समाधान निकालने के लिए जल्द ही एक कमेटी बनेगी।'' इसके बावजूद आज दो साल से अधिक हो गए, कोई कमेटी नहीं बनाई गई। आज जब किसान एमएसपी को लेकर फिर से धरना दे रहे हैं, तो उन पर रबर की गोलियां चलाई जा रही हैं, आंसू गैस के गोले छोड़े जा रहे हैं, रास्ते में कीलें बिछाई जा रही हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 February 2024

mumbai,  Rajya Sabha elections , Maharashtra

मुंबई। महाराष्ट्र में छह सीटों पर राज्यसभा चुनाव निर्विरोध होने की संभावना बढ़ गई है। भाजपा गठबंधन के सभी उम्मीदवार गुरुवार को दिन में एक बजे एक साथ अपना नामांकन दाखिल करेंगे। मौके पर मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे, उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और अजीत पवार उपस्थित रहेंगे। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रशेखर बावनकुले ने बुधवार को बताया कि भाजपा की ओर से अशोक चव्हाण, मेधा कुलकर्णी और अजीत गोपछड़े को राज्यसभा उम्मीदवार घोषित किया गया है। भाजपा के पास इन उम्मीदवारों के लिए पर्याप्त संख्याबल है। इसलिए इस चुनाव में भाजपा अपना चौथा उम्मीदवार नहीं उतारेगी। महाराष्ट्र में छह राज्यसभा सीटों के लिए चुनाव हो रहे हैं। इसलिए भाजपा गठबंधन की ओर से सिर्फ पांच उम्मीदवार दिये जाने की संभावना है। यदि ऐसा हुआ तो चुनाव निर्विरोध होगा। भाजपा गठबंधन की ओर से अब तक चार उम्मीदवारों की घोषणा की जा चुकी है। भाजपा गठबंधन के सहयोगी शिवसेना (शिंदे समूह) की ओर से मिलिंद देवड़ा को राज्यसभा का उम्मीदवार बनाया गया है। अभी तक भाजपा गठबंधन के सहयोगी राकांपा की ओर से उम्मीदवार की घोषणा नहीं की जा सकी है। कांग्रेस पार्टी की ओर से चंद्रकांत हंडोरे को राज्यसभा का उम्मीदवार घोषित किया है। राज्यसभा चुनाव के लिए उम्मीदवारों को 15 फरवरी तक आवेदन पत्र भरना है और अगर छह उम्मीदवारों ने ही नामांकन किया तो चुनाव निर्विरोध हो जाएगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 February 2024

new delhi, Prime Minister Modi , Jebel Ali, Dubai

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और दुबई के शासक, उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम ने बुधवार को दुबई में जेबेल अली मुक्त व्यापार क्षेत्र में डीपी वर्ल्ड द्वारा बनाए जाने वाले भारत मार्ट की आधारशिला रखी।   प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने एक बयान जारी कर कहा कि दोनों नेताओं ने विश्वास जताया कि भारत मार्ट जेबेल अली पोर्ट की रणनीतिक स्थिति और लॉजिस्टिक्स में ताकत का लाभ उठाकर भारत-यूएई द्विपक्षीय व्यापार को और आगे बढ़ाएगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत मार्ट में खाड़ी, पश्चिम एशिया, अफ्रीका और यूरेशिया में अंतरराष्ट्रीय खरीदारों तक पहुंचने के लिए एक प्रभावी मंच प्रदान करके भारत के सूक्ष्म, लघु और मध्यम क्षेत्रों के निर्यात को बढ़ावा देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने की क्षमता है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 February 2024

lucknow, Vibhakar Shastri,  joins BJP

लखनऊ। पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के पोते विभाकर शास्त्री अपने साथियों के साथ बुधवार को भाजपा में शामिल हो गए। प्रदेश अध्यक्ष भूपेन्द्र सिंह चौधरी और उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक की मौजूदगी में उन्होंने पार्टी की सदस्यता ग्रहण की।   प्रदेश मुख्यालय में आयोजित कार्यक्रम में प्रदेश अध्यक्ष भूपेन्द्र चौधरी ने कहा कि लोकसभा के आगामी चुनाव में भाजपा उत्तर प्रदेश की सभी 80 सीटों पर विजय प्राप्त करेगी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश की 25 करोड़ आबादी को गरीबी से बाहर निकालने का काम विगत 10 वर्षों में हुआ है। उत्तर प्रदेश में डबल इंजन की सरकार से प्रदेश की प्रगति, माफिया मुक्ति, गांव, गरीब, किसान की उन्नति संभव हुई है। उन्होंने कहा कि देश की 140 करोड़ जनता प्रचंड बहुमत से मोदी को तीसरी बार प्रधानमंत्री बनाने का निश्चय कर चुकी है। भाजपा में शामिल होने के बाद विभाकर ने कहा कि हमें नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में जय जवान जय किशान जय विज्ञान और जय अनुसंधान के नारे के साथ जुड़ने का मौका मिला है। हमें नरेन्द्र मोदी और भाजपा को मजबूत करना है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का हाल पिछले कई सालों से दिशाहीन है।   इस अवसर पर भाजपा के प्रदेश महामंत्री संजय राय, प्रदेश महामंत्री गोविन्द नारायण शुक्ला, प्रदेश प्रवक्ता ब्रज बहादुर, प्रदेश प्रवक्ता आलोक वर्मा समेत कई प्रमुख नेता मौजूद रहे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 February 2024

new delhi, Sonia Gandhi ,Rajya Sabha

नई दिल्ली। कांग्रेस की वरिष्ठ नेता सोनिया गांधी राजस्थान से राज्यसभा जाएंगी। वे आज राजस्थान से नामांकन करने जा रही हैं। हालांकि कल ही उनके राजस्थान से नामांकन करने की जानकारी आ गई थी। कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने बुधवार को एक विज्ञप्ति जारी कर कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने राज्यसभा के लिए चार नामों को स्वीकृति दी है। इसके तहत सोनिया गांधी राजस्थान से, वरिष्ठ अधिवक्ता अभिषेक मनु सिंहवी हिमाचल प्रदेश, डॉ. अखिलेश प्रसाद सिंह बिहार और चन्द्रकांत खंडूरे महाराष्ट्र से राज्यसभा के उम्मीदवार होंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 February 2024

mumbai, Devendra Fadnavis , Ashok Chavan

मुंबई। कांग्रेस पार्टी छोड़कर मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण को भाजपा की ओर से राज्यसभा में भेजे जाने के संकेत उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के एक बयान से मिले हैं। उन्होंने कहा कि अशोक चव्हाण राष्ट्रीय स्तर के नेता हैं। उनकी ऊंचाई के हिसाब से पार्टी उन्हें सम्मान देगी। उनकी राज्यसभा की सदस्यता के बारे में भाजपा की केंद्रीय समिति ही निर्णय लेगी। इसकी जानकारी पत्रकारों को जल्द मिलेगी। अशोक चव्हाण ने सोमवार को कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता और विधायक पद से इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद आज अशोक चव्हाण आज भाजपा में शामिल हो गए हैं। देवेंद्र फडणवीस ने संकेत दिया है कि अशोक चव्हाण को दिल्ली भेजा जा सकता है। इसी वजह से अटकलें लगाई जा रही है कि भाजपा की ओर से अशोक चव्हाण को राज्यसभा का नाम घोषित किया जाएगा और वे राज्यसभा के लिए नामांकन भरेंगे। पार्टी सूत्रों के अनुसार अशोक चव्हाण को भाजपा की ओर से राज्यसभा में भेजे जाने और उनकी बेटी श्रीजया को भाजपा की ओर से विधानसभा चुनाव का टिकट दिए जाने का ऑफर दिया गया है। इसी वजह से अशोक चव्हाण आज ही भाजपा में शामिल हो गए, जबकि चर्चा थी कि अशोक चव्हाण 15 फरवरी को भाजपा में प्रवेश लेने वाले हैं। पार्टी के भीतर अशोक चव्हाण की ओर से राज्यसभा का नामांकन भरने की जोरदार तैयारी की जा रही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 February 2024

chandigarh, Thousands of farmers , Dabwali border

चंडीगढ़। पंजाब के 27 किसान संगठनों ने आज (मंगलवार) दिल्ली कूच का ऐलान किया है। हजारों किसान अंबाला के निकट शंभू बार्डर तथा कैथल के निकट खनौरी बार्डर पर मौजूद हैं। हरियाणा पुलिस का प्रयास है कि इनको दिल्ली जाने से रोका जाए। इस बीच केंद्र सरकार के तीन मंत्रियों के साथ किसान संगठनों व पंजाब सरकार की बैठक सोमवार रात 12 बजे चंडीगढ़ में समाप्त हुई। इस बैठक में कोई परिणाम नहीं निकल सका।   इसके बाद रात करीब दो बजे किसान नेताओं ने बार्डर पर जुटे साथियों को लामबंद होने का ऐलान कर दिया। चंडीगढ़ में छह घंटे तक चली बैठक में शामिल हुए किसान नेता अल सुबह हरियाणा बार्डर पर पहुंच गए। किसानों ने केंद्रीयमंत्री पीयूष गोयल व अर्जुन मुंडा के साथ बातचीत की। रात करीब 12 बजे किसान नेता सरवण सिंह पंधेर बैठक बीच में छोड़कर बाहर आ गए। उन्होंने सुबह पंजाब-हरियाणा के किसानों को शंभू, खनौरी और डबवाली बार्डर पर एकत्र होने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि हर मुद्दे पर चर्चा हुई। सरकार किसानों की मांगों पर गंभीर नहीं है। किसान टकराव नहीं चाहते लेकिन सरकार के मन में खोट है। किसान नेता जगजीत डल्लेवाल ने कहा कि केंद्र सरकार सरकार पुरानी बातों पर ही कायम है। दिल्ली जाना अब किसानों की मजबूरी बन गया है। बैठक के बाद केंद्रीयमंत्री अर्जुन मुंडा ने कहा कि सरकार बातचीत के माध्यम से सभी मसलों का हल करना चाहती है। किसान संगठनों के साथ बैठक में ज्यादातर विषयों पर सहमति तक बात पहुंची। कई बिंदु ऐसे हैं जिनके स्थाई समाधान के लिए कमेटी बनाकर काम किया जाना जरूरी है। किसान कुछ मामलों के त्वरित हल चाहते हैं। सरकार बातचीत के लिए हमेशा तैयार है। इस बीच मंगलवार सुबह पंजाब पुलिस ने भी सीमावर्ती क्षेत्रों में मोर्चा संभाल लिया है। पंजाब पुलिस किसानों को आवागमन से नहीं रोक रही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 February 2024

srinagar, Farooq Abdullah ,money laundering case

श्रीनगर। मनी लॉन्ड्रिंग मामले में प्रवर्तन निदेशालय के नोटिस पर मंगलवार को नेशनल कॉन्फ्रेंस नेता फारूक अब्दुल्ला पेश नहीं हुए। उन्होंने एजेंसी को एक ई-मेल और पत्र के माध्यम से श्रीनगर से बाहर होने की जानकारी दी है।   श्रीनगर से लोकसभा सदस्य और नेशनल कॉन्फ्रेंस नेता फारूक अब्दुल्ला को ईडी अधिकारियों ने नोटिस भेजकर मंगलवार को श्रीनगर में ईडी कार्यालय में उपस्थित होने के लिए कहा था लेकिन वह फिलहाल जम्मू में हैं। फारूक अब्दुल्ला को केंद्रीय एजेंसी ने इस मामले में 11 जनवरी को भी बुलाया था लेकिन वह तब भी पेश नहीं हुए थे। इस पर ईडी ने आज के लिए नया समन जारी किया था।   ईडी की जांच जम्मू-कश्मीर क्रिकेट एसोसिएशन में वित्तीय अनियमितताओं से संबंधित है। इस मामले में पूर्व मुख्यमंत्री के खिलाफ 2022 में प्रवर्तन निदेशालय ने आरोप पत्र दायर किया था। ईडी ने कहा है कि यह मामला जेकेसीए पदाधिकारियों सहित असंबद्ध पक्षों के विभिन्न व्यक्तिगत बैंक खातों में स्थानांतरित करके और उसके बैंक खातों से अस्पष्टीकृत नकद निकासी के माध्यम से जेकेसीए फंड को निकालने से संबंधित है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 February 2024

new delhi,  Tejashwi Yadav,Supreme Court

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने गुजरातियों पर विवादित टिप्पणी पर मानहानि मुकदमा का सामना कर रहे आरजेडी नेता तेजस्वी यादव को राहत प्रदान कर दी। जस्टिस एएस ओका की अध्यक्षता वाली बेंच ने तेजस्वी के खिलाफ गुजरात में दर्ज मानहानि केस को निरस्त कर दिया।   तेजस्वी ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दिया था कि उन्हें गुजरातियों को ठग बताने वाले बयान पर खेद है और वह उसे वापस ले रहे हैं। इस पर सुप्रीम कोर्ट ने संकेत दिया था कि इस हलफनामे के आधार पर वह मामला खत्म कर सकता है। कोर्ट ने पांच फरवरी को फैसला सुरक्षित रख लिया था। तेजस्वी ने अहमदाबाद की निचली अदालत में अपने खिलाफ चल रहे आपराधिक मानहानि के मामले मे पेशी से छूट और मामले को गुजरात से बाहर ट्रांसफर करने की मांग की थी। इस मामले में अहमदाबाद की निचली अदालत ने उन्हें तलब किया था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 February 2024

new delhi,Arvind Kejriwal , visit Ramlala

अयोध्या। दिल्ली के मुख्यमंत्री एवं आम आदमी पार्टी के प्रमुख अरविंद केजरीवाल और पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान अपने परिवार और पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ सोमवार को श्री राम जन्मभूमि मन्दिर में प्रभु रामलला के दर्शन करने के लिए महर्षि वाल्मीकि एयरपोर्ट अयोध्या पहुंचे। वहां पर पार्टी प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह की अगुवाई में ढोल-नगाड़ों के बीच दोनों मुख्यमंत्री का स्वागत किया गया। यहां से सभी लोग श्री राम जन्मभूमि में दर्शन के लिए अयोध्या धाम निकले।     उल्लेखनीय हैं कि आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल को 22 जनवरी मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा समारोह में आमंत्रित किया गया था, लेकिन उन्होंने कहा था कि वह बाद में अपने माता-पिता, पत्नी और बच्चों के साथ मंदिर जाना चाहते हैं। आज अरविंद केजरीवाल और पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान अपने-अपने परिवार के साथ श्रीराम की नगरी अयोध्या धाम पहुंचे हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 February 2024

mumbai,Former Chief Minister ,left Congress

मुंबई। महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता अशोक शंकरराव चव्हाण ने सोमवार को कांग्रेस पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है। उनके बहुत जल्द भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने की संभावना जताई जा रही है। अशोक चव्हाण ने सोमवार को सुबह विधानसभा अध्यक्ष राहुल नार्वेकर से मिलकर विधायक पद से इस्तीफा दे दिया था लेकिन इसकी अधिकृत घोषणा नहीं की थी। इसके बाद उन्होंने कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले को पत्र लिखकर पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया। इस पत्र में अशोक चव्हाण ने खुद को पूर्व विधायक बताया है। इसलिए साफ हो गया है कि उन्होंने विधायक पद से इस्तीफा दे दिया है।   अभी अशोक चव्हाण की ओर से कोई अधिकृत जानकारी नहीं दी गई है लेकिन भाजपा नेताओं के बयानों से उनके बहुत जल्द भाजपा में शामिल होने की संभावना जताई जा रही है। भाजपा सांसद प्रताप पाटिल चिखलीकर ने दावा किया है कि अशोक चव्हाण बहुत जल्द भाजपा में शामिल होंगे। साथ ही उनके साथ सात से आठ विधायक भी भाजपा में आ सकते हैं। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष चंद्रशेखर बावनकुले ने कहा कि कांग्रेस में बड़े पैमाने पर नाराजगी है। मिलिंद देवड़ा, बाबा सिद्दीकी का उदाहरण देख सकते हैं। अशोक चव्हाण के भाजपा में आने के बारे में अभी तक कोई जानकारी नहीं है, लेकिन अगर अशोक चव्हाण पार्टी में आते हैं तो उनका स्वागत किया जाएगा। बावनकुले ने कहा कि निकट भविष्य में कई कांग्रेस नेता भाजपा में आने वाले हैं। यह सभी कांग्रेस की नीतियों से परेशान हैं और प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में काम करना चाहते हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 February 2024

new delhi,Prohibitory order, farmers

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में एक महीने के लिए निषेधाज्ञा लागू कर दी गई है। दिल्ली पुलिस ने किसानों के ‘दिल्ली चलो’ अभियान को देखते हुए सख्ती शुरू कर दी है। इसी क्रम में सिंघू बॉर्डर, गाजीपुर और टिकरी बॉर्डर पर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। रविवार की रात इन सभी बॉर्डर पर निरीक्षण के बाद दिल्ली पुलिस आयुक्त संजय अरोड़ा ने इस संबंध में दिशा निर्देश जारी किए हैं। पुलिस ने सभी बॉर्डर पर किसानों को रोकने के लिए कंक्रीट के अवरोधक और सड़क पर बिछाए जाने वाले लोहे के नुकीले अवरोधक लगाकर किलेबंदी की है।   सामान्य वाहनों को भी सोमवार की सुबह से काफी जांच पड़ताल के बाद दिल्ली की सीमा में प्रवेश दिया जा रहा है। उप्र, हरियाणा और पंजाब के ज्यादातर किसान संगठनों ने न्यूनतम समर्थन मूल्य की गारंटी की मांग को लेकर दिल्ली चलो का आह्वान किया है। इस मांग को लेकर मंगलवार को किसान दिल्ली की ओर चल पड़ेंगे। किसानों का दावा है कि 2021 में आंदोलन वापस लेने के लिए जिन शर्तों पर राजीनामा हुआ था, उसमें एमएसपी भी एक मुद्दा था।   सरकार को इस संबंध में कानून बनाना था लेकिन सरकार ने अब तक कुछ नहीं किया। ऐसे में किसानों ने एक बार फिर सड़क पर उतरने का फैसला किया है। किसानों के इस आह्वान को देखते हुए दिल्ली पुलिस आयुक्त संजय अरोड़ा ने रविवार की रात सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेने निकले। उन्होंने हरियाणा और उप्र से लगती सीमा का दौरा करने के बाद निषेधाज्ञा लागू करने का फैसला किया। इस फैसले के तहत दिल्ली पुलिस ने साफ कर दिया है कि सोमवार से सिंघू बॉर्डर पर वाणिज्यिक वाहनों का प्रवेश प्रतिबंधित होगा।   मंगलवार से सभी प्रकार के वाहनों पर पाबंदियां लागू होंगी। दिल्ली पुलिस के मुताबिक किसानों के प्रदर्शन को देखते हुए दिल्ली पुलिस ने सात हजार से अधिक जवानों की तैनाती की है। पुलिस के मुताबिक पंजाब और हरियाणा से करीब दो हजार ट्रैक्टर में सवार होकर किसानों के रवाना होने की सूचना है। संभावना है कि अलग अलग राज्यों से करीब 20 हजार किसान दिल्ली की सीमा में प्रवेश कर सकते हैं। हालांकि दिल्ली पुलिस ने भी तैयारी कर ली है कि किसी हाल में किसानों को दिल्ली की सीमा में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा।   राजधानी दिल्ली में 12 फरवरी से एक महीने के लिए निषेधाज्ञा लागू की गई है। इस अवधि में चार या इससे अधिक लोगों को एकत्र होने, रैली या प्रदर्शन करने, लाठी डंडे या अग्नेयास्त्र लेकर चलने पर रोक होगी। इसी प्रकार ज्वलनशील प्रदार्थ, ईंट-पत्थर, पेट्रोल-सोडा बोतल इकट्ठा करने पर भी रोक होगी। दूसरे राज्य की सीमा पर ट्रैक्टर-ट्रॉली से प्रवेश करने को भी प्रतिबंधित किया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 February 2024

tamilnadu,Governor RN Ravi ,walked out

नई दिल्ली। सदन में राष्ट्र्रगान के अपमान से क्षुब्ध उपराज्यपाल आरएन रवि ने सोमवार को तमिलनाडु विधानसभा सत्र से वाक आउट कर दिया। इसके पहले संबाेधन करते हुए उपराज्यपाल रवि ने कहा कि तमिलनाडु विधानसभा सत्र में मेरे संबोधन की शुरुआत और अंत में राष्ट्रगान के प्रति उचित सम्मान दिखाने और इसकी धुन बजाने के मेरे बार-बार अनुरोध और सलाह को नजरअंदाज कर दिया गया।     राज्यपाल आरएन रवि ने सरकार द्वारा तैयार अभिभाषण को सदन में पढ़ने से इनकार कर दिया। उपराज्यपाल ने कहा कि वे इस अभिभाषण से असहमत हैं और नैतिकता के आधार पर इसे पढ़ना संवैधानिक उपहास होगा। इसके साथ ही उपराज्यपाल सदन में अपना संबोधन समाप्त कर दिया।   अंत में उपराज्यपाल ने कहा, “इस संबोधन में कई अंश हैं, जिनके साथ मैं आश्वस्त हूं। तथ्यात्मक और नैतिक आधार पर असहमत हूं। मेरा उन्हें अपनी आवाज देना एक संवैधानिक उपहास होगा। इसलिए सदन के संबंध में मैं अपना संबोधन समाप्त करता हूं। कामना करता हूं कि इस सदन में लोगों की भलाई के लिए एक सार्थक और स्वस्थ चर्चा हो...।"

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 February 2024

new delhi, BJP , Prime Minister

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को कहा कि भाजपा सरकार ने पिछले 10 वर्षों में पूर्ववर्ती सरकारों की तुलना में डेढ़ गुना अधिक युवाओं को सरकारी नौकरियां दी हैं। उन्होंने कहा कि हमने भारत सरकार में भर्ती की प्रक्रिया को अब पूरी तरह पारदर्शी बना दिया है।   प्रधानमंत्री वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से नवनियुक्त युवाओं को 1 लाख से अधिक नियुक्ति पत्र वितरित करने के बाद संबोधित कर रहे थे। यह रोजगार मेला देशभर में 47 स्थानों पर आयोजित किया गया था। इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने रिमोट का बटन दबाकर नई दिल्ली में इंटीग्रेटेड ट्रेनिंग कॉम्प्लेक्स ‘कर्मयोगी भवन’ के प्रथम चरण की आधारशिला भी रखी। प्रधानमंत्री ने विश्वास जताते हुए कहा कि इस नए ट्रेनिंग कॉम्प्लेक्स से क्षमता निर्माण की हमारी पहल को और मजबूती मिलेगी। यह परिसर मिशन कर्मयोगी के विभिन्न हिस्सों के बीच सहयोग और तालमेल को बढ़ावा देगा। प्रधानमंत्री मोदी ने इस अवसर पर सभी एक लाख से अधिक नवनियुक्त युवाओं और उनके परिवारों को सरकारी नौकरी की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि आपने अपनी कड़ी मेहनत से इस सफलता को हासिल किया है। रोजगार मेले राष्ट्र निर्माण में हमारी युवा शक्ति के योगदान को बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं।   उन्होंने कहा कि भारत सरकार में युवाओं को नौकरी के अवसर उपलब्ध कराने का अभियान जोरों से जारी है। पहले की सरकारों में नौकरी के लिए विज्ञापन जारी होने से लेकर नियुक्ति पत्र देने तक बहुत लंबा समय लग जाता था। इस देरी का फायदा उठाकर उस दौरान रिश्वत का खेल भी जमकर होता था। हमने भारत सरकार में भर्ती की प्रक्रिया को अब पूरी तरह पारदर्शी बना दिया है। उन्होंने कहा कि इससे प्रत्येक युवा को अपनी क्षमताएं प्रदर्शित करने के समान अवसर प्राप्त हुए हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि आज हर युवा का मानना है कि वे कड़ी मेहनत और कौशल के साथ अपनी नौकरी की स्थिति को मजबूत कर सकते हैं। इस बात पर प्रकाश डालते हुए कि सरकार युवाओं को राष्ट्र के विकास में भागीदार बनाने का प्रयास करती है। उन्होंने बताया कि वर्तमान सरकार ने पिछले 10 वर्षों में पिछली सरकारों की तुलना में डेढ़ गुना अधिक युवाओं को नौकरियां दी हैं।   सरकार के प्रयासों से नए क्षेत्रों के खुलने और युवाओं के लिए रोजगार व स्वरोजगार के अवसर पैदा होने की बात करते हुए प्रधानमंत्री ने बजट में 1 करोड़ रूफटॉप सोलर प्लांट लगाने की घोषणा का जिक्र किया, जिससे परिवारों का बिजली बिल कम होगा और वे ग्रिड को बिजली की आपूर्ति करके पैसा कमाने में सक्षम होंगे। उन्होंने कहा कि इस योजना से लाखों नई नौकरियां भी पैदा होंगी।   उन्होंने कहा कि आज भारत, दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा स्टार्टअप इकोसिस्टम है। प्रधानमंत्री ने खुशी व्यक्त की कि इनमें से कई स्टार्टअप टियर 2 या टियर 3 शहरों से हैं। चूंकि ये स्टार्टअप नई नौकरियों के अवसर पैदा कर रहे हैं इसलिए नवीनतम बजट में स्टार्टअप्स के लिए कर छूट जारी रखने की घोषणा की गई है। प्रधानमंत्री ने बजट में रिसर्च और इनोवेशन को बढ़ावा देने के लिए घोषित 1 लाख करोड़ के फंड का भी जिक्र किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि आज रोजगार मेले के माध्यम से रेलवे में भर्ती भी हो रही है। उन्होंने कहा कि यात्रा के मामले में रेलवे आम लोगों की पहली पसंद है। भारत में रेलवे बड़े पैमाने पर बदलाव के दौर से गुजर रहा है और अगले दशक में इस क्षेत्र में पूर्ण बदलाव देखने को मिलेगा। उन्होंने कहा कि 2014 से पहले रेलवे पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया गया था। लेकिन 2014 के बाद, रेलवे के आधुनिकीकरण और उन्नयन पर ध्यान केंद्रित करते हुए संपूर्ण ट्रेन यात्रा अनुभव को फिर से तैयार करने का अभियान शुरू किया गया था। उन्होंने कहा कि इस साल के बजट के तहत वंदे भारत एक्सप्रेस जैसी 40,000 आधुनिक बोगियां तैयार कर सामान्य ट्रेनों में जोड़ी जाएंगी, जिससे यात्रियों के लिए सुविधा और आराम बढ़ेगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 February 2024

dehradoon, Essential services ,functioning smoothly

देहरादून/हल्द्वानी। उत्तराखंड के नैनीताल जिले स्थित हल्द्वानी शहर के कर्फ्यू ग्रस्त बनभूलपुरा क्षेत्र में आवश्यक सेवाओं को सुचारु करने के साथ ही मेडिकल स्टोर खुलवाए गए हैं। साथ ही बनभूलपुरा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में सेवा को बहाल कर दिया गया है। रविवार को जिलाधिकारी वंदना सिंह के निर्देश पर कर्फ्यू ग्रस्त बनभूलपुरा क्षेत्र में प्रशासन की टीम ने आवश्यक सेवाओं को बहाल कर दिया है। जोनल मजिस्ट्रेट एपी वाजपेई ने आवश्यक सेवाओं को बहाल किया। बीमार लोगों के लिए बनभूलपुरा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को सुचारु किया गया है। इसके अलावा लाइन नंबर 17 निवासी डेढ़ वर्षीय मोहम्मद इजहान जो कि बीमारी से ग्रसित था, उसे बनभूलपुरा चिकित्सालय में ले जाकर इलाज के उपरांत राजकीय वाहन से घर तक छोड़ा गया है। प्रशासन धीरे-धीरे शांति व्यवस्था के साथ-साथ आवश्यक सेवाओं को सुचारु कर रहा है। कुमाऊं मंडल विकास निगम के महाप्रबंधक एपी वाजपेई ने बताया है कि आज हल्द्वानी के कर्फ्यू क्षेत्र के लाइन नंबर 17, किदवई नगर, इंदिरा नगर, नई बस्ती, लाइन नंबर 08 के साथ ही अन्य क्षेत्रों में भारत और इंडेन गैस का वितरण कराया गया है। गौरतलब है कि कल केएमवीएन ने कर्फ्यू क्षेत्र को छोड़कर अन्य स्थानों में गैस आपूर्ति सुचारु की थी। आज कर्फ्यू प्रभावित क्षेत्र में भी गैस का वितरण कर दिया गया है। इस क्षेत्र में गैस के साथ ही सब्जी, दूध आदि सामग्री का वेंडर के माध्यम से पहुंचाई गई है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 February 2024

new delhi, Acharya Pramod Krishnam,Prime Minister Modi

नई दिल्ली। कांग्रेस से 24 घंटे पहले बाहर किए गए आचार्य प्रमोद कृष्णम ने रविवार को उत्तर प्रदेश के संभल स्थित श्री कल्कि धाम में चुप्पी तोड़ी। श्री कल्कि धाम के पीठाधीश्वर आचार्य कृष्णम ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, "16-17 साल की उम्र में मैंने जो वचन राजीव गांधी को दिया था, वो आज तक निभाया है। आज इस उम्र में संकल्प ले रहा हूं कि अब मैं आजीवन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ खड़ा रहूंगा।" निष्कासित कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम ने कहा, "मैं कांग्रेस की विचारधारा से जुड़ा हुआ हूं। सबसे पहले रामराज्य का सपना महात्मा गांधी ने देखा था। जो सपना महात्मा गांधी ने देखा वो सपना प्रधानमंत्री मोदी पूरा कर रहे हैं। अगर मोदी देश के प्रधानमंत्री हैं और देशहित में अच्छा फैसला कर रहे हैं तो उसका समर्थन होना चाहिए।" उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेतृत्व आज प्रधानमंत्री मोदी से नफरत करते-करते पूरे देश से नफरत करने लगा है। कांग्रेस प्रधानमंत्री मोदी से नफरत करते-करते सनातन को मिटाने पर तुल गई है। पार्टी में सचिन पायलट का बहुत अपमान हुआ है। सचिन भगवान शिव की तरह जहर पिये जा रहे हैं। प्रियंका गांधी की भी बहुत तौहीन की जा रही है। सवाल यह है कि अपमान किसके इशारे पर किया जा रहा है? आचार्य कृष्णम ने कहा, उन्हें कल रात कुछ न्यूज चैनलों के माध्यम से अपने छह साल के निष्कासन की जानकारी मिली। उन्होंने इसके लिए सवाल करते हुए कांग्रेस नेतृत्व का आभार जताया और पूछा कि केसी वेणुगोपाल या मल्लिकार्जुन खड़गे बताएं कि ऐसी कौन सी गतिविधियां हैं जो पार्टी के विरोध में थीं। क्या भगवान राम का नाम लेना पार्टी (कांग्रेस) विरोधी है? उन्होंने कहा कि 'राम और राष्ट्र' पर समझौता नहीं किया जा सकता। निष्कासन बहुत छोटी चीज है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 February 2024

new delhi, Swami Dayanand ,Prime Minister

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को स्वामी दयानंद सरस्वती की जयंती पर आयोजित समारोह में एक वीडियो संदेश में कहा कि गुलामी के कालखंड में उन्होंने सामाजिक कुरीतियों पर प्रहार किया और जनमानस को वेद और आध्यात्म से जोड़ा। प्रधानमंत्री ने कहा कि अंग्रेजों ने सामाजिक कुरीतियों को मोहरा बनाकर हमें नीचा दिखाने की कोशिश की। सामाजिक बदलाव को हवाला देकर अंग्रेजी राज को कुछ लोगों ने सही ठहराने की कोशिश की। ऐसे समय में स्वामी दयानंद के प्रयासों से इन सभी साजिशों को गहरा धक्का लगा। आर्य समाज से प्रभावित लाला लाजपत राय, राम प्रसाद बिस्मिल और स्वामी श्रद्धानंद जैसी क्रांतिकारियों की पूरी शृंखला तैयार हुई। ऐसे में कहा जा सकता है कि स्वामी दयानंद सरस्वती केवल एक वैदिक ऋषि ही नहीं बल्कि राष्ट्र चेतना के ऋषि थे। प्रधानमंत्री ने कहा कि आर्य समाज की ओर से चलाए जा रहे शिक्षा संस्थान और इसमें पढ़ने वाले विद्यार्थी एक बड़ी शक्ति है। यह सब एक बड़ी भूमिका निभा सकते हैं। सामाजिक कार्यों से जुड़ने के लिए भारत सरकार के नवगठित युवा संगठन की शक्ति भी है। उनका आग्रह है कि दयानंद सरस्वती के सभी अनुयायी डीएवी शैक्षिक नेटवर्क के सभी विद्यार्थियों को मायभारत से जुड़ने के लिए प्रोत्साहित करें। उन्होंने कहा कि महर्षि दयानंद ने अपने दौर में महिलाओं के अधिकारों और उनकी भागीदारी की बात की थी। नई नीतियों के जरिए ईमानदार कोशिशों के जरिए देश आज अपनी बेटियों को आगे बढ़ा रहा है। कुछ महीने पहले ही देश ने 'नारी शक्ति वंदन अभिनियम' पास करके लोकसभा और विधानसभा में महिला आरक्षण सुनिश्चित किया है। देश के इन प्रयासों से जन-जन को जोड़ना ही आज महर्षि को हमारी सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 February 2024

lucknow, Chief Minister Yogi , Ayodhya

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने मंत्रिपरिषद के सदस्यों और विधायकों के साथ रामलला का दर्शन करने रविवार को अयोध्या पहुंचे। भाजपा के विधायक 10 बसों में सवार होकर लखनऊ से अयोध्या पहुंचे। भाजपा के अलावा बसपा के विधायक उमाशंकर सिंह, कांग्रेस विधायक आराधना मिश्रा मोना, जनसत्ता दल के अध्यक्ष एवं विधायक रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजाभैया, निषाद पार्टी के अध्यक्ष डा. संजय निषाद और सुभासपा अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर भी रामलला का दर्शन करने अयोध्या पहुंचे हैं। अयोध्या पहुंचने पर राज्यमंत्री सतीश चन्द्र ने विधायकों का स्वागत किया। इसके बाद श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महामंत्री चंपत राय और मुख्यमंत्री के साथ सभी मंत्री एवं विधायकों ने रामलला के दर्शन किए। मुख्यमंत्री के साथ विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना और विधान परिषद के सभापति कुंवर मानवेन्द्र सिंह, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य एवं ब्रजेश पाठक और विधायकों ने रामलला के दर्शन किए।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 February 2024

new delhi, Delhi Police alert ,farmers

नई दिल्ली। किसानों के दिल्ली कूच के आह्वान को देखते हुए उत्तर पूर्वी दिल्ली जिला में धारा 144 लगा दिया गया है। जिले के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि एमएसपी आदि मांगों को लेकर किसान संगठनों के 13 फरवरी को दिल्ली कूच करने के आह्वान की जानकारी मिली है। मांगें पूरी होने तक उनके दिल्ली की सीमा पर बैठने की संभावना है। पूर्व में हुए विरोध प्रदर्शनों के दौरान किसानों ने जिस प्रकार का व्यवहार दिखाया था, उसे ध्यान में रखते हुए ट्रैक्टर/ट्रॉली आदि के साथ किसानों/समर्थकों के अपने-अपने जिलों से दिल्ली आने की संभावना है। यह भी संभावना है कि हरियाणा, पंजाब, यूपी, राजस्थान, उत्तराखंड और एमपी आदि राज्यों से भी किसान आ सकते हैं। किसी भी अप्रिय घटना से बचने और कानून और व्यवस्था बनाए रखने के साथ, क्षेत्र में जीवन और संपत्ति को बचाने के लिए धारा 144 आपराधिक प्रक्रिया संहिता, 1973 का एहतियाती आदेश जारी किया जाना आवश्यक है। अधिकारियों ने कहा कि, दिल्ली और उत्तर प्रदेश के बीच सभी सीमाओं पर और उत्तर पूर्वी जिले के क्षेत्राधिकार क्षेत्र में आस-पास के क्षेत्रों में आम जनता के इकट्ठा होने पर रोक रहेगी। वहीं, उत्तर प्रदेश से दिल्ली में प्रदर्शनकारियों को ले जाने वाले ट्रैक्टरों, ट्रॉलियों, बसों, ट्रकों, वाणिज्यिक वाहनों, निजी वाहनों आदि में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। उत्तर पूर्वी जिला पुलिस प्रदर्शनकारियों को दिल्ली में प्रवेश करने से रोकने के लिए सभी प्रयास करेगी। किसी भी व्यक्ति/प्रदर्शनकारी को हथियार रखने की अनुमति नहीं होगी। उत्तर पूर्वी जिले की पुलिस ऐसे व्यक्तियों को मौके पर हिरासत में लेने के लिए सभी प्रयास करेगी। किसान आंदोलन को देखते हुए बॉर्डर एरिया में बैरिकेडिंग की जा रही है। साथ ही पुलिसकर्मियों और अर्धसैनिक बलों को भी तैनात किया जा रहा है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 February 2024

new delhi,UPA government  ,Finance Minister

नई दिल्ली। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को कांग्रेस के नेतृत्व वाले संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) पर आर्थिक कुप्रबंधन का आरोप लगाते हुए कहा कि 2008 में आई वैश्विक मंदी को गठबंधन सरकार ठीक से नहीं संभाल पाई। अब वे मोदी सरकार को अर्थव्यवस्था पर ज्ञान दे रहे हैं। पूर्ववर्ती सरकार और वर्तमान सरकार के बीच का अंतर समझाते हुए वित्त मंत्री ने लोकसभा में श्वेत पत्र पर चर्चा की शुरुआत की। उन्होंने कहा, “2008 के बाद आए वैश्विक वित्तीय संकट और कोविड के बाद आए संकट से स्पष्ट है कि यदि सरकार की मंशा सच्ची है तो परिणाम अच्छे होंगे।” भारतीय अर्थव्यवस्था पर श्वेत पत्र और उसके देश के लोगों पर प्रभाव विषय पर वित्त मंत्री ने चर्चा की शुरुआत की। निर्मला सीतारमण ने कहा कि पिछली गठबंधन सरकार के कुप्रबंधन के चलते देश बेहद ही नाजुक स्थिति में पहुंच गया था। यूपीए सरकार के दौरान राष्ट्र मंडल खेलों में हुई गड़बड़ियों से देश का नाम दुनिया में खराब हुआ था लेकिन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में जी20 की अध्यक्षता के दौरान भारत का नाम दुनिया में ऊपर उठा है। उन्होंने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में एनडीए सरकार ने नाजुक स्थिति से उबारा है। हमारी अर्थव्यवस्था दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन गई है और अब यह शीर्ष तीन में स्थान बनाने के लिए अग्रसर है। वित्त मंत्री ने कहा कि कांग्रेस सरकार अगर गंभीरता, पारदर्शिता और ईमानदारी से काम करती तो देश की अर्थव्यवस्था की स्थिति काफी बेहतर होती लेकिन कांग्रेस ने देश नहीं बल्कि एक परिवार को प्रथम रखा। इसके परिणाम सबसे सामने हैं। कोयला क्षेत्र में मनमाने ढंग से आवंटन किया गया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 February 2024

new delhi, Good governance,JP Nadda

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा ने कहा कि गुड गवर्नेंस कोई स्लोगन नहीं है, गुड गवर्नेंस मैजिक बैंड नहीं है। गुड गवर्नेंस एक स्पिरिट है। इसे अपने जीवन में उतारने की ताकत भी होनी चाहिए। वह शुक्रवार को अंबेडकर इंटरनेशनल सेंटर में आयोजित सुशासन महोत्सव 2024 के उद्घाटन समारोह को संबोधित कर रहे थे। नड्डा ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने देश की राजनीति की संस्कृति को बदल कर रख दिया। लोगों ने लंबे समय तक सरकारें चलाईं, सबका वोट लिया और सबका घोषणापत्र बनाया लेकिन सत्ता में आने के बाद वे सरकारें एक विशेष जाति या वर्ग की सरकारें बन गईं। वे वोटबैंक की राजनीति का शिकार हो गये। उन्होंने वस्तुनिष्ठता की बात की लेकिन वो खुद को आत्मपरकता तक सीमित कर लिया और इसलिए सुशासन की बात करते-करते वो सरकारें कुशासन में बदल गईं। गुड गवर्नेंस को जनआंदोलन बनाने पर जोर देते हुए जे पी नड्डा ने कहा कि देश में शांतिपूर्ण तरीके से नीतियों में बदलाव हुए। इसका सबसे पहला कारण नीति निर्धारण में जनभागीदारी है। चूंकि वे हितधारक हैं, उन्हें शामिल करने की आवश्यकता है। दूसरा, भागीदारी पारदर्शी होनी चाहिए। वितरण और सुझाव भी पारदर्शी होने चाहिए। तीसरा, इसकी जवाबदेही होनी चाहिए। अंत में डिलीवरी में कोई कमी नहीं होनी चाहिए और लीकेज को बंद किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि पहले इस देश में एलोपैथी व आयुर्वेद का झगड़ा चल रहा था। आज यहां एलोपैथी भी है, आयुर्वेद भी है, योगा भी है और यूनानी भी है। एक हेल्थ सेंटर में आपको योगा भी मिल रहा है तो दूसरे हेल्थ सेंटर में आपको इंजेक्शन लगाने वाला डॉक्टर भी मिल रहा है। ये आज से पहले कभी नहीं हुआ था लेकिन ये होलिस्टिक हेल्थ कवरेज है। हमें यह ध्यान रखना होगा कि हम लाखों लोगों की आस्था के संरक्षक हैं। लोगों का विश्वास बरकरार रखना हमारी जिम्मेदारी है। यह सुशासन का एक अनिवार्य घटक है। 2014 से पहले और 2014 के बाद देश की राजनीतिक संस्कृति में बदलाव आया है। सबका साथ सबका विकास, सबका विश्वास के मूल मंत्र के साथ देश में काम हुआ है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 February 2024

dehradoon, Five dead , Haldwani violence

देहरादून/नैनीताल। नैनीताल जिले के हल्द्वानी में गुरुवार को हुई बनभूलपुरा हिंसा में अब तक पांच लोगों की मौत हो चुकी है जबकि तीन की हालत अत्यंत गंभीर है। उपद्रवियों से निपटने के लिए धामी सरकार सख्ती बरत रही है। राज्य सरकार ने साफ कर दिया कि बनभूलपुरा में हिंसा करने वाले किसी भी व्यक्ति को बख्शा नहीं जाएगा। शहर के उपद्रवग्रस्त इलाके में कर्फ्यू जारी है और इंटरनेट सेवा भी निलंबित कर दी गई हैं।   उत्तराखंड पुलिस महानिदेशक अभिनव कुमार ने हिन्दुस्थान समाचार को बताया कि बनभूलपुरा हिंसा में अब तक पांच लोगों की मौत हो चुकी है। हिंसा में घायल तीन लोगों की स्थिति अत्यंत गंभीर है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने राजधानी में अपने सरकारी आवास पर स्थिति पर उच्च अधिकारियों के साथ विचार-विमर्श किया। इस बीच ड्रोन से पूरे वनभूलपुरा क्षेत्र की निगरानी की जा रही है। पुलिस मुख्य साजिशकर्ता को तलाश कर रही है। इस मामले में अब तक तीन एफआईआर दर्ज हो चुकी हैं। प्रशासन ने सतर्कता बरतते हुए पूरे शहर में इंटरनेट सेवा निलंबित कर दी है। मुख्यमंत्री धामी ने अपने आवास पर हुई बैठक में निर्देश दिए हैं कि अवैध निर्माण हटाने के दौरान अधिकारियों और कर्मचारियों पर हमला करने और अशान्ति फैलाने वाले अराजक तत्वों के विरुद्ध तुरंत सख्त कार्रवाई की जाए। उन्होंने शान्ति व कानून व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए एडीजी (कानून और व्यवस्था) एपी अंशुमान को प्रभावित क्षेत्र में कैंप करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि आगजनी और पथराव करने वाले एक-एक उपद्रवी की पहचान कर कार्रवाई की जाए। बैठक में विशेष प्रमुख सचिव/ एडीजी अमित सिन्हा, सचिव आर. मीनाक्षी सुंदरम, शैलेश बगोली, विनय शंकर पाण्डेय, अपर सचिव जेसी कांडपाल प्रमुख रूप से उपस्थित रहे। नैनीताल ब्यूरो के अनुसार आज सुबह जिलाधिकारी वंदना सिंह ने पत्रकारों से कहा कि बिना उकसावे की कार्रवाई पर अधिकारियों को थाने में जिंदा जलाने की कोशिश की गई। फिलहाल हल्द्वानी में स्थिति नियंत्रण में हैं। डीएम वंदना ने कहा कि शहर में 1100 पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं। उपद्रवग्रस्त इलाके में कर्फ्यू अगले आदेश तक जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि हमला एक तरह से कानून व्यवस्था को चुनौती देते हुए किया गया है। ढाई घंटे के भीतर स्थिति को नियंत्रित कर लिया गया। इस मामले में चार उपद्रवी पुलिस हिरासत में हैं। डीएम ने बताया कि अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई के दौरान कई दुकानें भी हटाई गईं। प्रशासन की कार्रवाई में किसी का घर नहीं टूटा और न ही कोई बेघर हुआ। डीएम ने साफ किया कि वहां कोई धार्मिक स्थल नहीं था। नजूल भूमि पर अतिक्रमण था। भीड़ प्रशासनिक मशीनरी पर हमला करने पर आमादा थी और उन पर यह हमला सुनियोजित था। उन्होंने बताया कि कार्रवाई के दौरान आधे घंटे के भीतर ही नगर निगम की टीम पर पथराव किया गया। उन्हें शांत किया तो दूसरी भीड़ ने पेट्रोल बमों से हमला कर दिया। इसके बाद भीड़ ने थाने को निशाना बनाया और वाहन फूंक डाले। उन्होंने कहा कि हमलावरों को तितर-बितर करने के लिए पानी की बौछार की गई। आत्मरक्षार्थ गोली चलाने के आदेश दिए गए। यहां से भीड़ को हटाया गया तो दंगाई गांधीनगर पहुंच गए। वहां सभी धर्मों के लोग रहते हैं। स्थिति संभालने के लिए पीएसी व अतिरिक्त पुलिस बल को बुलाया गया। पत्रकारों से बातचीत में एसएसपी प्रह्लाद नारायण मीणा ने बताया कि 15-20 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की जा रही है। इनसे क्षति की वसूली की जाएगी। अगले तीन घंटों में कार्रवाई शुरू हो जाएगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 February 2024

new delhi, Bharat Ratna , MS Swaminathan

नई दिल्ली। देश के दो पूर्व प्रधानमंत्रियों- चौधरी चरण सिंह और पीवी नरसिम्हा राव तथा हरित क्रांति के जनक वैज्ञानिक डॉ. एमएस स्वामीनाथन को देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न से नवाजा जाएगा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को एक्स के माध्यम से इसकी जानकारी दी। प्रधानमंत्री ने लिखा कि हमारी सरकार का यह सौभाग्य है कि पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह को भारत रत्न से सम्मानित किया जा रहा है। यह सम्मान देश के लिए उनके अतुलनीय योगदान को समर्पित है। उन्होंने किसानों के अधिकार और उनके कल्याण के लिए अपना पूरा जीवन समर्पित कर दिया था। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे हों या देश के गृहमंत्री और यहां तक कि एक विधायक के रूप में भी, उन्होंने हमेशा राष्ट्र निर्माण को गति प्रदान की। वे आपातकाल के विरोध में भी डटकर खड़े रहे। हमारे किसान भाई-बहनों के लिए उनका समर्पण भाव और इमरजेंसी के दौरान लोकतंत्र के लिए उनकी प्रतिबद्धता पूरे देश को प्रेरित करने वाली है। उन्होंने कहा कि एक प्रतिष्ठित विद्वान और राजनेता के रूप में नरसिम्हा राव ने विभिन्न क्षमताओं में भारत की बड़े पैमाने पर सेवा की। उन्हें आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री, केंद्रीय मंत्री और कई वर्षों तक संसद और विधानसभा सदस्य के रूप में किए गए कार्यों के लिए समान रूप से याद किया जाता है। उनका दूरदर्शी नेतृत्व भारत को आर्थिक रूप से उन्नत बनाने, देश की समृद्धि और विकास के लिए एक ठोस नींव रखने में सहायक था। प्रधानमंत्री के रूप में नरसिम्हा राव का कार्यकाल महत्वपूर्ण उपायों द्वारा चिह्नित किया गया था जिसने भारत को वैश्विक बाजारों के लिए खोल दिया, जिससे आर्थिक विकास के एक नए युग को बढ़ावा मिला। इसके अलावा भारत की विदेश नीति, भाषा और शिक्षा क्षेत्रों में उनका योगदान एक ऐसे नेता के रूप में उनकी बहुमुखी विरासत को रेखांकित करता है, जिन्होंने न केवल महत्वपूर्ण परिवर्तनों के माध्यम से भारत को आगे बढ़ाया बल्कि इसकी सांस्कृतिक और बौद्धिक विरासत को भी समृद्ध किया। डॉ. स्वामीनाथन के बारे में घोषणा करते हुए उन्होंने कहा कि उन्होंने चुनौतीपूर्ण समय के दौरान भारत को कृषि में आत्मनिर्भरता हासिल करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई और भारतीय कृषि को आधुनिक बनाने की दिशा में उत्कृष्ट प्रयास किए। हम एक अन्वेषक और संरक्षक के रूप में और कई छात्रों के बीच सीखने और अनुसंधान को प्रोत्साहित करने वाले उनके अमूल्य काम को भी पहचानते हैं। डॉ. स्वामीनाथन के दूरदर्शी नेतृत्व ने न केवल भारतीय कृषि को बदल दिया है बल्कि देश की खाद्य सुरक्षा और समृद्धि भी सुनिश्चित की है। वह ऐसे व्यक्ति थे जिन्हें वे स्वयं करीब से जानते थे और हमेशा उनकी अंतर्दृष्टि और इनपुट को महत्व देते थे। उल्लेखनीय है कि कुछ दिनों पहले बिहार के दो बार मुख्यमंत्री रहे कर्पूरी ठाकुर और पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी को भारत रत्न देने का ऐलान किया गया था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 February 2024

new delhi, Rabri, Misa, Hima, Hridayanand

नई दिल्ली। दिल्ली के राऊज एवेन्यू कोर्ट ने ईडी के लैंड फॉर जॉब मामले में आरोपित बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी, मीसा भारती और हिमा यादव के साथ ह्रदयानंद चौधरी को अंतरिम जमानत दे दी। स्पेशल जज विशाल गोगने ने मामले की अगली सुनवाई 28 फरवरी को करने का आदेश दिया। इससे पहले आज सुबह राबड़ी देवी, मीसा भारती, हिमा यादव और ह्रदयानंद चौधरी कोर्ट में पेश हुए। कोर्ट ने 27 जनवरी को ईडी की चार्जशीट पर संज्ञान लिया था। कोर्ट ने राबड़ी, मीसा, हिमा यादव और ह्रदयानंद चौधरी को समन जारी कर पेश होने का निर्देश दिया। साथ ही इस मामले में गिरफ्तार अमित कात्याल के खिलाफ प्रोडक्शन वारंट जारी किया था। इस मामले में ईडी से पहले सीबीआई ने भी केस दर्ज किया था। यह केस भीराऊज एवेन्यू कोर्ट में चल रहा है। सीबीआई से जुड़े मामले में कोर्ट ने चार अक्टूबर, 2023 को बिहार के तत्कालीन उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव, लालू प्रसाद यादव और राबड़ी देवी को जमानत दी थी। कोर्ट ने 22 सितंबर, 2023 को सीबीआई की ओर से दाखिल दूसरी चार्जशीट पर संज्ञान लिया था। तीन जुलाई, 2023 को सीबीआई ने पूरक चार्जशीट दाखिल की था। कोर्ट ने 27 फरवरी, 2023 को इन तीनों समेत सभी आरोपितों के खिलाफ दाखिल चार्जशीट पर संज्ञान लिया था। सात अक्टूबर 2022 को लैंड फॉर जॉब मामले में सीबीआई ने लालू प्रसाद यादव , राबड़ी देवी और मीसा भारती समेत 16 के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की थी।   लैंड फॉर जॉब घोटाला मामले में सीबीआई ने भोला यादव और हृदयानंद चौधरी को गिरफ्तार किया था। भोला यादव 2004 से 2009 तक लालू यादव के ओएसडी रहे थे। लैंड फॉर जॉब घोटाला लालू यादव के रेलमंत्री रहने के दौरान का है। भोला यादव को ही इस घोटाले का मास्टरमाइंड माना जा रहा है। आरोप है कि लालू यादव के रेलमंत्री रहते नौकरी के बदले जमीन देने के लिए कहा जाता था। नौकरी के बदले जमीन देने के काम को अंजाम देने का काम भोला यादव को सौंपा गया था।   भोला यादव 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव में बहादुरपुर सीट से विधायक चुने गए थे। सीबीआई ने मई के तीसरे सप्ताह में इस मामले में लालू यादव के परिजनों से जुड़े 17 ठिकानों पर छापेमारी की थी। सीबीआई ने लालू यादव, उनकी पत्नी राबड़ी देवी और बेटी मीसा भारती के पटना, गोपालगंज और दिल्ली स्थित ठिकानों पर छापा मारा था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 February 2024

new delhi,President flags off ,shuttle bus service

नई दिल्ली। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने अमृत उद्यान आने वालों की सुविधा के लिए बुधवार को केंद्रीय सचिवालय मेट्रो स्टेशन से शटल बस सेवा को हरी झंडी दिखाई।   यह शटल सेवा केंद्रीय सचिवालय मेट्रो स्टेशन के गेट संख्या 4 से अमृत उद्यान के गेट संख्या 35 के बीच चलेगी। यह सुबह 9.30 बजे से शाम 5 बजे तक हर 30 मिनट के अंतराल पर उपलब्ध होगी। उल्लेखनीय है कि राष्ट्रपति भवन का ‘अमृत उद्यान’ 2 फरवरी से आम लोगों के लिए खुला है। घूमने-फिरने के शौकीन लोग 31 मार्च तक सप्ताह में छह दिन सुबह 10 बजे से शाम 4 बजे तक यहां घूमने जा सकते हैं। प्रत्येक सोमवार को रखरखाव के लिए उद्यान आम लोगों के लिए बंद रहेगा। सभी आगंतुकों के लिए प्रवेश और निकास राष्ट्रपति भवन के गेट नंबर 35 से होगा। आगंतुकों की सुविधा के लिए केंद्रीय सचिवालय मेट्रो स्टेशन से राष्ट्रपति भवन के गेट नंबर 35 तक शटल बस सेवा सुबह 9.30 बजे से शाम 5 बजे के बीच हर 30 मिनट के अंतराल पर उपलब्ध रहेगी। अमृत उद्यान 22-23 फरवरी तथा 1 और 5 मार्च को विशेष श्रेणियों के लिए खुला रहेगा। यह 22 फरवरी को दिव्यांग व्यक्तियों, 23 फरवरी को रक्षा, अर्धसैनिक और पुलिस बलों के कर्मियों के लिए जबकि 1 मार्च को महिलाओं एवं आदिवासी महिला एसएचजी के लिए और 5 मार्च को अनाथालयों के बच्चों के लिए खुला रहेगा। ऑनलाइन बुकिंग राष्ट्रपति भवन की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर की जा सकती है और और साथ ही गेट नंबर 35 के बाहर स्थित सेल्फ सर्विस कियोस्क के माध्यम से भी स्लॉट की बुकिंग मुफ्त है। आगंतुक मोबाइल फोन, इलेक्ट्रॉनिक चाबियां, पर्स, हैंडबैग, पानी की बोतलें और शिशुओं के लिए दूध की बोतलें ले जा सकते हैं। सार्वजनिक मार्ग पर विभिन्न स्थानों पर पेयजल, शौचालय और प्राथमिक चिकित्सा, चिकित्सा सुविधाओं का इंतजाम किया जाएगा। आगंतुकों को सुबह 10 बजे से सायं 4 बजे के बीच छह घंटे के स्लॉट में यात्रा करने की अनुमति दी जाएगी। दो पूर्वाह्न स्लॉट (10 बजे से 12 बजे) की क्षमता सप्ताह के दिनों में 7,500 आगंतुकों और सप्ताहांत पर प्रत्येक स्लॉट में 10,000 आगंतुकों की होगी। दोपहर के चार स्लॉट (12 बजे से सायं 4 बजे) की क्षमता सप्ताह के दिनों में प्रत्येक स्लॉट में 5,000 आगंतुकों और सप्ताहांत पर 7,500 आगंतुकों की होगी। इस दौरान आगंतुक 225 साल पुराना शीशम का पेड़, बोनसाई गार्डन में 300 से अधिक बोनसाई जिनमें से कई दशकों पुराने हैं, म्यूजिकल फाउंटेन, सेंट्रल लॉन में दुर्लभ और विदेशी फूल, लॉन्ग गार्डन और सर्कुलर गार्डन से गुजरेंगे। थीम गार्डन में 18 किस्मों के 42,000 ट्यूलिप लगाए गए हैं। बाहर निकलने पर उनके लिए फूड कोर्ट होंगे। यहां एक सुंदर सेल्फी पॉइंट भी बनाया गया है। अमृत उद्यान के अलावा लोग सप्ताह में छह दिन (मंगलवार से रविवार तक) राष्ट्रपति भवन और राष्ट्रपति भवन संग्रहालय भी देख सकते हैं। वे राजपत्रित छुट्टियों को छोड़कर प्रत्येक शनिवार को चेंज-ऑफ-गार्ड समारोह भी देख सकते हैं। उद्यान उत्सव के दौरान स्कूली छात्र संग्रहालय का निःशुल्क भ्रमण कर सकते हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 February 2024

new delhi, Modi 3.0 , Prime Minister

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को तीसरी बार सत्ता में वापसी पर विश्वास जताते कहा कि मोदी 3.0 विकसित भारत की नींव को मजबूत करने में पूरी शक्ति लगा देगा। प्रमुख घोषणाओं में उन्होंने सौर ऊर्जा के जरिए मुफ्त बिजली, बुलेट ट्रेन, सभी के लिए पाइप से गैस, हर घर में पाइप से पानी और सभी के लिए आवास उपलब्ध कराने की बात कही।   राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर राज्यसभा में चर्चा का जवाब देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि उनके अगले कार्यकाल के पांच वर्षों में देश कई क्षेत्रों में उन्नति करेगा। अगले पांच सालों में खेल के क्षेत्र में दुनिया में भारत के युवाओं की ताकत पहचानी जाएगी। सार्वजनिक परिवहन की कायापलट होगी। रूफटॉप सॉलर से लोगों को मुफ्त बिजली मिलेगी। बुलेट ट्रेन और वंदे भारत का विस्तार होगा। सेमीकंडक्टर जगत में मेड इन इंडिया की गूंज होगी। इलेक्ट्रॉनिक्स के क्षेत्र में देश अग्रणी होगा। हमारे गांव के छोटे-छोटे किसानों द्वारा उत्पादित सुपरफूड मोटा अनाज विश्व बाजार में उपलब्ध होगा। ड्रोन किसानों के लिए नई ताकत बनेगा और पशुपालन एवं मछली पालन बढ़ेगा। प्रधानमंत्री ने सहकारी संघवाद को अपनी सरकार की प्राथमिकता बताया और कहा कि देश का विकास राज्यों के विकास के साथ ही संभव है। वे विश्वास दिलाते हैं कि अगर राज्य एक कदम चलता है तो हम दो कदम चलते हैं। इस दौरान प्रधानमंत्री ने एकता और एकजुटता के महत्व को रेखांकित किया और कहा कि अगर शरीर का एक अंग काम ना करे तो पूरा शरीर अपंग माना जाता है लेकिन राजनीतिक स्वार्थ के लिए देश को तोड़ने वाली भाषाएं बोली जा रही हैं। उन्होंने कहा कि देश के अलग-अलग क्षेत्र में अलग-अलग तरह की परिस्थितियों से मिलने वाला लाभ पूरे देश का है।   उन्होंने देश में कोर्पोरेट क्षेत्र में होती तरक्की और सरकारी कंपनियां के बढ़ते लाभांश का भी अपने भाषण में विशेष उल्लेख किया और आरोप लगाया कि कांग्रेस इन सरकारी कंपनियों के खिलाफ भ्रम फैलाने का काम कर रही है। इस संदर्भ में उन्होंने बीएसएनल, एचएएल और एलआईसी का उदाहरण दिया। उन्होंने कहा, “आपने कहां छोड़ा था और हमने कहां पहुंचा दिया है।” उन्होंने कहा कि 2014 में 234 पीएसयू थे और आज इनकी संख्या 254 हो गई है जिनका लाभांश भी कई गुना बढ़ा है।   प्रधानमंत्री ने कांग्रेस पर देश की संस्कृति को लेकर गलत नैरेटिव गढ़े जाने का आरोप लगाया और कहा कि इसी के चलते लोग अपने संस्कारों को हीन भाव से देखने लगे थे। पार्टी ने देश के अतीत के साथ अन्याय किया है। उन्होंने कांग्रेस पर अंग्रेजों की आजादी के बाद भी देश में गुलामी की मानसिकता को बढ़ावा देने का आरोप लगाया। प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस आरक्षण की जन्मजात विरोधी रही है। एक समय में पंडित नेहरू ने एससी-एसटी और ओबीसी को नौकरी में आरक्षण मिलने से कामकाज के स्तर के गिरने की बात कही थी। आज कांग्रेस जिन आंकड़ों को गिना रही है उसका मूल यही है। उस समय सरकार में भर्ती और प्रमोशन मिलता तो आज आगे बढ़ते हुए यहां तक पहुंचते। कांग्रेस ने जम्मू कश्मीर के एससी-एसटी, ओबीसी को 7 दशकों तक उनके अधिकारों से वंचित रखा। आरक्षण के मुद्दे पर कांग्रेस को घेरते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि आज हमें वह सामाजिक न्याय का पाठ पढ़ा रहे हैं जिन्होंने कभी पिछड़ा वर्ग और सामान्य वर्ग के गरीबों को आरक्षण नहीं दिया और बाबा साहब को भारत रत्न योग्य नहीं समझा। केवल एक ही परिवार को भारत रत्न देते रहे। इस संदर्भ में उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू की राज्यों के मुख्यमंत्रियों को लिखी एक चिट्ठी का उदाहरण दिया। उन्होंने कहा कि पंडित नेहरू ने अपनी चिठ्ठी में लिखा था कि वे आरक्षण को पसंद नहीं करते। इससे अकुशलता बढ़ेगी। अपने कार्यकाल में आरक्षण की स्थिति का वर्णन करते हुए प्रधानमंत्री ने बताया कि उच्च शिक्षा में अनुसूचित जाति के विद्यार्थियों का नामांकन 44 प्रतिशत, अनुसूचित जनजाति का नामांकन 65 प्रतिशत और ओबीसी का नामांकन 45 प्रतिशत बढ़ा है। 10 सालों में एकलव्य स्कूलों की संख्या 120 से बढ़कर 400 हुई है। जनजातीय विश्वविद्यालय एक से दो हुए हैं। प्रधानमंत्री ने कांग्रेस पर सत्ता के लालच में लोकतंत्र का गला घोंटने का आरोप लगाया और कहा कि कई बार लोकतांत्रिक तरीके से चुनी हुई सरकारों को रातों-रात बर्खास्त कर दिया गया। प्रधानमंत्री ने कांग्रेस की लोकसभा में घटती सीटों पर कटाक्ष किया और कहा कि पार्टी की सोच पुरानी हो चुकी है। इसके कारण वह अपना कार्य बाहर से करा रही हैं। उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल से चुनौती आई है कि कांग्रेस 40 भी पार नहीं कर पाएगी। वह प्रार्थना करते हैं कि आप 40 बचा पाएं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 February 2024

karnatak, Modi government , Siddaramaiah

नई दिल्ली। कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने कहा कि केन्द्र सरकार राज्य को न तो टैक्स का हिस्सा दे रही है और न ही आर्थिक मदद कर रही है।   सिद्धारमैया ने बुधवार को जंतर-मंतर पर केन्द्र सरकार के विरुद्ध प्रदर्शन के दौरान कहा कि कर्नाटक के साथ भेदभाव किया जा रहा है। हमें जो आर्थिक सहयोग केन्द्र की ओर से मिलना चाहिए, वह नहीं मिल मिल रहा है। उन्होंने उदाहरण देकर समझाया कि अगर राज्य टैक्स के रूप में केन्द्र को 100 रुपये देता है तो राज्य को इसमें से 12-13 रुपये ही वापस मिलते हैं।   राज्य के उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार ने प्रदर्शन के दौरान कहा कि हमें अपना हक चाहिए। जो नीतियां गुजरात के लिए हैं, वही कर्नाटक के लिए भी होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि हम महाराष्ट्र के बाद टैक्स कलेक्शन में दूसरे स्थान पर हैं तो हमारे साथ अन्याय नहीं होना चाहिए।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 February 2024

new delhi,Arvind Kejriwal ,appear in court

नई दिल्ली। दिल्ली के राऊज एवेन्यू कोर्ट ने दिल्ली आबकारी घोटाला मामले में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की ओर से ईडी के समन को लगातार नजरअंदाज करने पर उनको 17 फरवरी को कोर्ट में पेश होने का निर्देश दिया है। एडिशनल मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट दिव्या मल्होत्रा ने ये आदेश दिया। कोर्ट ने कहा कि वो ईडी की शिकायत पर संज्ञान ले रहा है। कोर्ट ने आज ही सुबह फैसला सुरक्षित रख लिया था। सुनवाई के दौरान ईडी की ओर से पेश एएसजी एसवी राजू ने कोर्ट से कहा था कि केजरीवाल लगातार समन को नजरअंदाज कर रहे हैं। ईडी ने मनी लांड्रिंग कानून की धारा 50 के तहत केजरीवाल को पांच बार समन भेजा है लेकिन पांचों बार वह समन को नजरअंदाज करते हुए ईडी के समक्ष पेश नहीं हुए। कोर्ट ने ईडी की दलीलें सुनने के बाद फैसला सुरक्षित रख लिया था। उल्लेखनीय है कि आबकारी घोटाला मामले में पूर्व उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, राज्यसभा सदस्य संजय सिंह न्यायिक हिरासत में हैं। संजय सिंह की जमानत याचिका राऊज एवेन्यू कोर्ट खारिज कर चुका है, जिसके बाद उन्होंने दिल्ली हाई कोर्ट में याचिका दायर की है। सिसोदिया की जमानत याचिका सुप्रीम कोर्ट भी खारिज कर चुका है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 February 2024

bew delhi, Amit Shah ,Lal Krishna Advani

नई दिल्ली। केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी से मंगलवार को मुलाकात कर उन्हें भारत रत्न दिए जाने पर बधाई दी है। मुलाकात की फोटो एक्स पर साझा कर शाह ने लिखा कि लालकृष्ण आडवाणी ने देश की सांस्कृतिक विरासत, राजनीति और प्रगति में अमूल्य योगदान दिया है। उनके किए गए कार्य हम सब के लिए प्रेरणा स्रोत हैं। शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने आडवाणी को भारत रत्न देने का निर्णय लेकर उनके अथक संघर्षों और योगदान को सम्मानित करने का काम किया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 February 2024

srinagar, Lashkar terrorist arrested , New Delhi railway station

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा में सक्रिय पाकिस्तानी आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के आतंकी रियाज अहमद राथर को नई दिल्ली स्टेशन से रेलवे पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पाकिस्तान में बैठे लश्कर आकाओं के निर्देश पर रियाज अहमद राथर ने एलओसी के पार से हथियार व गोला बारूद प्राप्त करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। रेलवे पुलिस ने मंगलवार को एक बयान में कहा कि कुपवाड़ा में हाल ही में भंडाफोड़ किए गए आतंकी मॉड्यूल के प्रमुख साजिशकर्ताओं में से एक रियाज अहमद को 04 फरवरी को नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार किया गया है। वह नियंत्रण रेखा के पार से हथियार और गोला-बारूद हासिल करने में खुर्शीद अहमद राथर और गुलाम सरवर राथर के साथ साजिश रचने में शामिल था।   बयान में कहा गया कि जम्मू-कश्मीर की जांच एजेंसियों से विशेष जानकारी मिली थी कि जिला कुपवाड़ा की तहसील करनाह के ग्राम न्यू गबरा निवासी रियाज़ अहमद राथर हाल ही में भंडाफोड़ किए गए आतंकी मॉड्यूल के प्रमुख साजिशकर्ताओं में से एक है। इस आतंकी मॉड्यूल मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार करके 5 एके राइफल (शॉर्ट), 5 एके मैगजीन, 16 शॉर्ट एके राउंड सहित आपत्तिजनक सामग्री बरामद की गई थी। इस संबंध में एक मामला पुलिस स्टेशन करनाह, कुपवाड़ा (जम्मू-कश्मीर) में दर्ज किया गया था और जांच चल रही है।   बयान में कहा गया कि ये हथियार और गोला-बारूद पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर स्थित लश्कर-ए-तैयबा के आतंकवादी आकाओं मंजूर अहमद शेख उर्फ शकूर और काजी मोहम्मद खुशाल ने भेजे थे। दोनों सीमा पार से ऑपरेट कर रहे थे। इसी मामले में फरार रियाज़ अहमद के बारे में जानकारी दी गई कि वह 04 फरवरी को तड़के नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पहुंचेगा। इस पर एक टीम गठित करके नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के सभी प्रवेश, निकास और रणनीतिक बिंदुओं पर तैनात किया गया। नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पुलिस ने तुरंत कार्रवाई की और भीड़ में रियाज अहमद की पहचान करके उस समय पकड़ लिया, जब वह सुबह के समय नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के निकास गेट नंबर 1 से भागने की कोशिश कर रहा था। सघन पूछताछ में पता चला कि वह अपने दोस्त अल्ताफ के साथ जबलपुर से महाकौशल एक्सप्रेस में सवार हुआ था और 3 फरवरी को लगभग 3 बजे हजरत निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन पहुंचा था। वहां से उन्होंने ऑटो लिया और एनडीआरएस पहुंचे। रियाज़ अहमद राथर किसी दूसरे ठिकाने पर जाने वाला था। उसके कब्जे से एक मोबाइल फोन और एक सिम कार्ड बरामद किया गया है। पूरी साजिश का पता लगाने के लिए आगे की जांच जारी है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 February 2024

panji, PM Modi , ONGC Sea Survival

पणजी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज सुबह दक्षिण गोवा के बेतुल में ओएनजीसी सी सर्वाइवल सेंटर का उद्घाटन किया। इस सेंटर को वैश्विक मानकों के अनुरूप एक अद्वितीय समुद्री सर्वाइवल प्रशिक्षण केंद्र के रूप में विकसित किया गया है। इसमें 10,000 से 15,000 कर्मियों को वार्षिक प्रशिक्षण दिया जा सकेगा।   इससे खराब मौसम की स्थिति में नियंत्रित अभ्यास से प्रशिक्षुओं के समुद्री जीवन कौशल में वृद्धि होगी और संभावित आपदाओं से सुरक्षित रहने की संभावना बढ़ जाएगी। प्रधानमंत्री आज गोवा में 1330 करोड़ रुपये से अधिक की परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास भी करेंगे। साथ ही प्रधानमंत्री गोवा के राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान के स्थायी परिसर को राष्ट्र को समर्पित करेंगे। प्रधानमंत्री अपराह्न लगभग 2:45 बजे विकसित भारत, विकसित गोवा कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 February 2024

new delhi, ED raids ,Aam Aadmi Party

नई दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने आज (मंगलवार) सुबह धन शोधन की जांच के सिलसिले में आम आदमी पार्टी के नेता और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के निजी सचिव वैभव कुमार और पार्टी से जुड़े लोगों सहित 10 ठिकानों पर छापा मारा। यह कार्रवाई पार्टी की होने वाली प्रेस कॉन्फ्रेंस से ठीक पहले की गई है।   बताया गया है कि केजरीवाल के निजी सचिव वैभव कुमार, दिल्ली जल बोर्ड के पूर्व सदस्य शलभ कुमार और पार्टी के राज्यसभा सदस्य नारायण दास गुप्ता सहित कुछ लोगों के यहां तलाशी ली जा रही है। उल्लेखनीय है कि दिल्ली की मंत्री आतिशी ने आज सुबह 10 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बड़ा खुलासा करने का दावा किया था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 February 2024

ranchi, Champai Soren, government won

रांची। झारखंड विधानसभा के विशेष सत्र के पहले दिन सोमवार को चंपाई सोरेन की नेतृत्व वाली झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो), कांग्रेस, राजद गठबंधन की सरकार ने सोमवार को विश्वास मत हासिल कर लिया। विश्वास प्रस्ताव पर हुए मतदान में चंपाई सोरेन सरकार को 47 मत मिले, जबकि विपक्ष में 29 वोट पड़े। जमशेदपुर पूर्वी के निर्दलीय विधायक सरयू राय ने मतदान से दूरी बना ली। सत्ता पक्ष के एक विधायक रामदास सोरेन बीमार होने की वजह से सदन की कार्यवाही में शामिल नहीं हुए। विधायक इंद्रजीत महतो बीमारी की वजह से वोट देने के लिए उपस्थित नहीं हो सके। निर्दलीय विधायक अमित महतो अनुपस्थित रहे। कमलेश सिंह ने विपक्ष के समर्थन में वोट किया। विधानसभा अध्यक्ष रबींद्रनाथ महतो ने विधानसभा की कार्यवाही मंगलवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी। राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन के अभिभाषण के बाद कुछ देर सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी गयी। फिर से सदन की कार्यवाही विधानसभा के अध्यक्ष रबींद्रनाथ महतो की अध्यक्षता में शुरू हुई। फ्लोर टेस्ट की प्रक्रिया को शुरू करने के लिए मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन ने सरकार बनाने का अपना दाना पेश किया, जिसके बाद विस अध्यक्ष ने पक्ष और विपक्ष को अपनी बात रखने का मौका दिया। दोनों तरफ की बहस सुनने के बाद फ्लोर टेस्ट हुआ, जिसमें सत्ता पक्ष को 47 तो विपक्ष को 29 वोट मिले। वोटों की गिनती के लिए विधानसभा अध्यक्ष ने पहले सत्ता पक्ष को हां कहते हुए अपनी जगह पर खड़े होने को कहा। विपक्ष के लिए भी यही तरीका अपनाया गया। विधानसभा कर्मियों ने दोनों पक्षों की उपस्थितियों की गिनती की, जिसके बाद सत्ता पक्ष फ्लोर टेस्ट में पास हो गया। अब सारी राजनीतिक गतिविधियों पर विराम लग गया। चंपाई सोरेन अब पूर्ण रूप से सरकार को चलाएंगे। किसे कितने वोट मिले सत्ता पक्ष- जेएमएम-28, कांग्रेस-17 (प्रदीप यादव को लेकर), राजद-01, माले-01 विपक्ष- भाजपा- 25 (बाबूलाल को लेकर), आजसू-03, एनसीपी-01 (कमलेश सिंह) कड़ी सुरक्षा में वोट देने आए पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ईडी की कस्टडी में पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ईडी कार्यालय से विधानसभा पहुंचे। विधानसभा पहुंचते ही ईडी की टीम गेट नंबर एक पर रुक गयी। वहां से हेमंत सोरेन विधानसभा के सुरक्षाकर्मियों की सुरक्षा में विधानसभा में दाखिल हुए। वो पहले की तरह नेता सदन की कुर्सी पर नहीं बैठे। उन्हें सत्ता पक्ष की तरफ वाली आगे की कतार में बैठने की जगह मिली। अपने कुछ साथियों से उन्होंने बात भी की। लेकिन कोर्ट की मनाही की वजह से उन्होंने मीडिया में किसी तरह का कोई बयान नहीं दिया। मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन सात फरवरी को मंत्रिमंडल का करेंगे विस्तार बहुमत साबित करने के बाद मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन सात फरवरी को अपना मंत्रिमंडल का विस्तार करेंगे। इस दिन मंत्रियों का शपथ ग्रहण कराये जाने की संभावना है। सरकार का विश्वास मत हासिल करने के बाद सदन की कार्यवाही खत्म होने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन को दूसरी तरफ ले जाकर बैठ गए और लंबी मंत्रणा की। अपने पॉकेट से एक कागज निकालकर चंपाई सोरेन को सौंपा और करीब 20 से 25 मिनट तक बातचीत की। ऐसा माना जा रहा है कि हेमंत सोरेन ने मंत्रिमंडल का खाका और विभागों के बंटवारे की सूची चंपाई सोरेन को सौंप दिया है। जानकारी के अनुसार, मुख्यमंत्री चंपई सोरेन सात फरवरी को अपने बाकी बचे मंत्रियों का शपथ ग्रहण कराएंगे और मंत्री परिषद का विस्तार करेंगे। उसी दिन देर शाम तक मंत्रालय का भी बंटवारा कर दिए जाने की संभावना है। जानकारी के अनुसार चार वर्षों से रिक्त पद 12वां बर्थ भी इस बार भरा जाएगा। राजद को छोड़ दिया जाए तो जेएमएम और कांग्रेस में काफी बदलाव देखने को मिल सकता है। सोरेन परिवार की सीता सोरेन और बसंत सोरेन दोनों को मंत्रिमंडल में एडजस्ट किया जा सकता है। वहीं और भी कुछ चेहरे बदल सकते हैं।वहीं कांग्रेस की तरफ से भी कई नाम सामने आ रहे हैं। इसमें प्रदीप यादव, दीपिका पांडे और जयमंगल उर्फ अनुप सिंह का नाम चल रहा है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 February 2024

new delhi, Supreme Court, democracy

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने चंडीगढ़ मेयर चुनाव में निर्वाचन अधिकारी की ओर से धांधली किये जाने के आरोप पर सख्त रुख अपनाते हुए इसे लोकतंत्र की हत्या बताया है। चीफ जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ की अध्यक्षता वाली बेंच ने चुनाव का वीडियो देखने के बाद कहा कि निर्वाचन अधिकारी मतपत्र कैसे खराब कर सकता है, उस पर मुकदमा चलना चाहिए। सुप्रीम कोर्ट ने 7 फरवरी को होने वाली चंडीगढ़ नगर निगम की बैठक को स्थगित कर दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो दोबारा चुनाव कराए जाएंगे। कोर्ट ने कहा कि अभी मतपत्र और मतदान का वीडियो पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट को सौंप दिया जाए। सुप्रीम कोर्ट में जब चुनाव का वीडियो चलाया गया तो कोर्ट ने कहा कि क्या इस तरह चुनाव आयोजित किए जाते हैं। ये लोकतंत्र का मजाक है। निर्वाचन अधिकारी पर मुकदमा चलना चाहिए। चीफ जस्टिस ने कहा कि निर्वाचन अधिकारी कैमरे पर क्यों देख रहे हैं और वो भगोड़े की तरह क्यों भाग रहे हैं। सुनवाई के दौरान आम आदमी पार्टी की ओर से पेश वरिष्ठ वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि भाजपा के एक उम्मीदवार को निर्वाचन अधिकारी चुना गया और उसने पक्षपातपूर्ण तरीके से काम किया और उसने कांग्रेस एवं आम आदमी पार्टी के आठ पार्षदों के बैलेट पेपर को जानबूझकर खराब कर दिया। इस पर सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कहा कि वीडियो ने केवल एक पक्षीय कहानी बताई है। उन्होंने कोर्ट से आग्रह किया कि पूरी रिकॉर्डिंग देखने के बाद इस पर समग्र रुख अख्तियार करें। तब चीफ जस्टिस ने कहा कि इस पर हमें जरूरी अंतरिम आदेश पारित करना होगा, जो हाई कोर्ट ने नहीं किया। दरअसल, आम आदमी पार्टी के पार्षद कुलदीप कुमार ने 30 जनवरी को हुए चुनावों के मामले में पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट के उस आदेश को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है, जिसमें हाई कोर्ट ने चंडीगढ़ नगर निगम का मेयर घोषित करने वाले चुनाव परिणाम पर तत्काल रोक लगाने से इनकार कर दिया था। हालांकि, हाई कोर्ट ने इस मामले में नोटिस जारी कर इस मामले की सुनवाई तीन हफ्ते बाद के लिए तय कर दी है। पार्षद कुलदीप कुमार ने याचिका में मेयर चुनाव की प्रक्रिया को रद्द कर चुनाव से जुड़ा पूरा रिकॉर्ड सील करने की मांग करते हुए कहा है कि मेयर के पदभार संभालने पर रोक लगाई जाए। याचिका में पूरी चुनावी प्रक्रिया में हुई धांधली की जांच कराने और हाई कोर्ट के रिटायर्ड जज की निगरानी में नए सिरे से चुनाव करवाने का निर्देश जारी करने की मांग की गई है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 February 2024

ranchi, Central government ,Rahul Gandhi

रांची। भारत जोड़ो न्याय यात्रा के तहत कांग्रेस सांसद राहुल गांधी झारखंड में हैं। यात्रा के तहत यहां धुर्वा स्थित शहीद मैदान में आयोजित जनसभा को राहुल गांधी ने संबोधित किया। इस दौरान राहुल ने हैवी इंजीनियरिंग कार्पोरेशन (एचईसी) के मुद्दे पर केंद्र की मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला। राहुल ने कहा कि एचईसी का गला क्यों घोटा जा रहा है। एचईसी के साथ अन्याय क्यों हो रहा है। कांग्रेस सांसद ने आरोप लगाते हुए कहा कि केंद्र की सरकार चाहती है कि एचईसी काम करना बंद कर दे। इसे भी प्राइवेटाइज कर दिया जाये। मोदी सरकार एचईसी के लोगों को बेरोजगार करना चाहती है, लेकिन कांग्रेस ऐसा होने नहीं देगी।     राहुल गांधी ने कहा कि नरेंद्र मोदी और उनकी सरकार धीरे-धीरे सार्वजनिक उपक्रमों को खत्म कर रही है। मैं जहां भी जाता हूं, मुझे पीएसयू के लोग हाथों में पोस्टर लिए खड़े दिखते हैं। चाहे बीएचईएल हो, एचएएल हो या एचईसी, सभी को धीरे-धीरे अडानी को सौंपा जा रहा है। उन्होंने कहा कि देश में ओबीसी, आदिवासी, दलित कितने लोग हैं इसकी संख्या बताने वाला कोई नहीं है। देश में 50 प्रतिशत ओबीसी के लोग हैं। तेलंगाना की सरकार ने वादा किया था, उसे पूरा करने का काम कर रही है। जातीय जनगणना की शुरुआत होगी।     कांग्रेस नेता ने कहा कि इस देश में दलित, पिछड़ा और आदिवासी कितने हैं। इसके पीछे का तर्क समझिए कि प्राइवेट कंपनी में कितने लोग हैं। पता चलेगा कि कोई नहीं है। सरकार जो पैसे खर्च करती है उसमें निर्णय लेने वाले 90 लोगों में से सिर्फ तीन पिछड़े के लोग हैं। बजट में निर्णय लेने वाले सिर्फ पांच प्रतिशत लोग हैं। दलित और आदिवासियों की संख्या शून्य है। सरकारी, प्राइवेट सेक्टर में आदिवासी, दलित और पिछड़ों की संख्या शून्य है। उन्होंने कहा कि पिछड़ों, दलितों और आदिवासियों की संख्या का पता चलने के बाद ही अधिकार मिल पायेगा।     उन्होंने कहा कि जीएसटी से छोटे व्यापारियों को फायदा नहीं हुआ। मजदूर जीएसटी देता है। गरीबों का पैसा अरबपतियों के जेब में जा रहा है। छोटे व्यापारियों को पहले खत्म किया। नोटबंदी ने छोटे व्यापारियों को खत्म कर दिया। उसके बाद जीएसटी लागू कर दिया, जितना खोजना है, खोज लो छोटे व्यवसायी नहीं मिलेंगे।     राहुल ने कहा कि पहले प्रधानमंत्री मोदी भाषण में बताते थे कि मैं ओबीसी से हूं। जब मैंने ओबीसी जनगणना की बात कही तो ओबीसी बोलना बंद कर दिया। उन्होंने कहा कि देश में सामाजिक अन्याय, महिलाओं के खिलाफ अन्याय, किसानों के खिलाफ अन्याय, युवाओं के खिलाफ अन्याय हो रहे हैं। इस अन्याय के खिलाफ हमने न्याय यात्रा की शुरुआत की है।     राहुल गांधी ने कहा कि झारखंड में आदिवासी सीएम को भाजपा बर्दाश्त नहीं कर सकती है, इसलिए इस सरकार को हटाने का प्रयास हुआ। लेकिन गठबंधन एकजुट हुआ और सरकार बच गई। यह लोकतंत्र पर हमला कर रहे हैं। आईएनडीआईए गठबंधन इस मंसूबे को कभी कामयाब नहीं होने देगा। राहुल ने कहा कि केंद्र सरकार को सरना कोड देना होगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 February 2024

new delhi, India-China ,border dispute

नई दिल्ली। लोकसभा में कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने सोमवार को भारत-चीन सीमा विवाद पर सरकार से स्पष्टीकरण मांगा। अधीर रंजन ने आसन के माध्यम से रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से पूछा कि रक्षा मंत्री बताएं कि लद्दाख के क्या हालात हैं? आपने कहा था कि वहां यथास्थिति बहाल करेंगे लेकिन दिन-प्रतिदिन लद्दाख की हालत खराब होती जा रही है। कांग्रेस नेता ने कहा कि लद्दाख में 02 हजार स्क्वायर किमी. क्षेत्र पर अतिक्रमण हो चुका है। आज लद्दाख के चरवाहे अपनी जमीन पर नहीं जा पा रहे हैं। ऐसे में आप चुप क्यों बैठे हैं? जब गलवान घाटी में हमारे 20 जवान शहीद हो गए, तब भी आपने सर्टिफिकेट दे दिया था कि कोई घुसपैठ नहीं हुई। अधीर रंजन चौधरी के आरोपों को निराधार बताते हुए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सदन में कहा कि इन्होंने (अधीर रंजन चौधरी) चीन और वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के संबंध में जो कुछ भी कहा, वह उससे असहमति व्यक्त करते हैं और इसकी निंदा करते हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 February 2024

guwahati, Prime Minister , projects worth

गुवाहाटी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को गुवाहाटी में 11 हजार 600 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं का शुभारंभ और शिलान्यास किया। प्रधानमंत्री ने खानापाड़ा स्थित असम पशु चिकित्सा महाविद्यालय खेल मैदान पर सार्वजनिक सभा को संबोधित भी किया। रविवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कोइनाधारा स्टेट गेस्ट हाउस में एक खुले वाहन पर सवार होकर खानापाड़ा स्थित असम पशु चिकित्सा महाविद्यालय खेल मैदान पर पहुंचे। प्रधानमंत्री के साथ असम प्रदेश भाजपा अध्यक्ष भवेश कलिता और मुख्यमंत्री डॉ. हिमंत बिस्व सरमा भी थे। यहां उन्होंने आभासी रूप से 11 हजार 600 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। इसके बाद एक सार्वजनिक बैठक को भी संबोधित किया। प्रधानमंत्री मोदी ने यहां जिन प्रमुख परियोजनाओं की आधारशिला रखी गई, उनमें कामाख्या कॉरिडोर (498 करोड़ रुपये), गुवाहाटी में नए हवाई अड्डे के टर्मिनल से छह लेन की सड़क (358 करोड़ रुपये), नेहरू स्टेडियम का फीफा मानकों के अनुरूप विकास (831 करोड़ रुपये) और चंद्रपुर में एक नया खेल परिसर (300 करोड़ रुपये) शामिल हैं। प्रधानमंत्री मोदी असम माला सड़क परियोजना के दूसरे संस्करण की भी शुरुआत की। इस चरण में 43 नई सड़कें और 38 कंक्रीट पुल शामिल होंगे, जिसमें कुल 3,444 करोड़ रुपये का निवेश होगा। इसके अलावा, मोदी 3,250 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले गुवाहाटी मेडिकल कॉलेज और अस्पताल की एकीकृत नई इमारत की आधारशिला रखी। प्रधानमंत्री मोदी ने 578 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले करीमगंज मेडिकल कॉलेज व अस्पताल और गुवाहाटी में 297 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले यूनिटी मॉल की भी आधारशिला रखी। इसके अलावा, प्रधानमंत्री मोदी 1,451 करोड़ रुपये की लागत से विकसित बिश्वनाथ चारियाली से गहपुर तक नवनिर्मित चार-लेन सड़क और 592 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित डोलाबारी से जामुगुरी तक एक और चार-लेन सड़क का उद्घाटन भी किया। उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री मोदी शनिवार की शाम को उड़ीसा से गुवाहाटी के एलजीबीआई एयरपोर्ट पहुंचे थे। जहां उनका गर्म जोशी से स्वागत किया गया। प्रधानमंत्री ने कोइनाधारा स्टेट गेस्ट हाउस में रात्रि विश्राम किया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 February 2024

new delh,Crime branch ,Atishi

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के बाद दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की टीम विधायकों की खरीद-फरोख्त मामले में रविवार को शिक्षा मंत्री आतिशी के सरकारी आवास पर नोटिस देने पहुंची। क्राइम ब्रांच की टीम शुक्रवार शाम को भी आतिशी के घर गई थी, लेकिन वह घर में नहीं थीं। इसके बाद टीम शनिवार को मुख्यमंत्री के घर पर नोटिस देने पहुंची थी, जहां काफी हंगामा हुआ था। इस बीच आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता एवं मीडिया हेड जैस्मिन शाह और क्राइम ब्रांच के एसीपी पंकज अरोड़ा के बीच काफी बहस हुई थी और करीब पांच घंटे तक अपराध शाखा की टीम मुख्यमंत्री आवास पर रुकने के बाद लौट गई थी।   रविवार सुबह करीब 10 बजे क्राइम ब्रांच की टीम विधायकों की खरीद फरोख्त मामले में ही मंत्री आतिशी के घर नोटिस देने पहुंची। इससे पहले विगत 27 जनवरी को आम आदमी पार्टी की नेता एवं मंत्री आतिशी ने पार्टी मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर ऑपरेशन लोटस को लेकर भाजपा पर हमला बोला था। उन्होंने कहा था कि भाजपा आम आदमी पार्टी की चुनी हुई सरकार को गिराने का प्रयास कर रही है। पिछले कुछ दिनों में आम आदमी पार्टी के सात विधायकों से भाजपा ने संपर्क किया है और कहा है कि हम केजरीवाल को गिरफ्तार करने वाले हैं, उसके बाद हम आम आदमी पार्टी के विधायकों को एक-एक कर तोड़ेंगे। अभी हम आम आदमी पार्टी के 21 विधायकों के संपर्क में हैं। उन विधायकों के जरिए दिल्ली सरकार को गिरा देंगे। आतिशी ने इन सात विधायकों को आम आदमी पार्टी छोड़कर भाजपा में शामिल होने के लिए 25-25 करोड़ रुपये का ऑफर देने का आरोप लगाया था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 February 2024

shimla, Rain and snowfall ,Himachal

शिमला। हिमाचल प्रदेश में मौसम के कड़े तेवर बने हुए हैं। राज्य के ऊंचे पहाड़ी इलाकों में बीती रात से बर्फ़बारी और मैदानी व मध्यवर्ती इलाकों में बारिश का दौर चल रहा है। इससे समूचा प्रदेश भीषण शीत लहर की चपेट में है और कई स्थानों पर तापमान जमाव बिंदु से नीचे दर्ज किया जा रहा है।बर्फ़बारी का नजारा देखने के लिए सैलानियों ने पर्यटक स्थलों का रुख करना शुरू कर दिया है। मौसम विज्ञान शिमला केंद्र के निदेशक सुरेंद्र पाल का कहना है कि पश्चिम विक्षोभ के प्रभाव से राज्य में बारिश और बर्फबारी हो रही है। उन्होंने बताया कि अगले 24 घंटे में भी मौसम खराब रहेगा, लेकिन बर्फबारी में कमी आएगी। उन्होंने कहा कि छह फरवरी से विक्षोभ के कमजोर पड़ने से मौसम में सुधार आएगा। पहाड़ों पर लगातार हो रही बर्फबारी से चार नेशनल हाईवे और 518 सड़कें बंद हैं। शिमला और लाहौल-स्पीति में बर्फबारी से यातायात व्यवस्था चरमराई हुई है। मौसम विभाग ने आज दिन भर भारी बर्फबारी का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। राज्य आपातकालीन परिचालन केंद्र की रिपोर्ट के अनुसार रविवार की सुबह तक शिमला जिला में 161 लाहौल स्पीति में 157, कुल्लू जिला में 71, मंडी जिला में 46 और किन्नौर जिला में 13 सड़कें बंद हैं। बर्फ़बारी से अप्पर शिमला की अधिकतर सड़के अवरुद्ध पड़ी हैं। ठियोग डिवीजन में 31, रोहड़ू व रामपुर डिवीजन में 30-30 और कोटखाई में 23 सड़कें बर्फबारी से बंद हैं। कुल्लू और लाहौल स्पीति जिलों में दो-दो नेशनल हाईवे पर बर्फबारी से आवाजाही पूरी तरह ठप है। पहाड़ी इलाकों में लगातार हो रही बर्फबारी से सड़कों के बहाली कार्य में दिक्कतें आ रही हैं। चंबा जिले में 145, कुल्लू में 117 और मंडी में 114 ट्रांसफार्मर के बंद होने से बिजली गुल है। मौसम विभाग के अनुसार शिमला जिला के शिलारू किन्नर के कल्पा और चंबा के भरमौर में पांच-पांच सेंटीमीटर ताजा बर्फबारी दर्ज की गई है। इसके अलावा गोंदला में चार, केलांग में तीन, कुफरी, नारकंडा व खदराला में दो-दो सेंटीमीटर बर्फ़बारी हुई है। राज्य के पहाड़ी इलाकों पर हो रही बर्फ़बारी का नजारा देखने के लिए पर्यटकों ने बर्फ से ढके पर्यटक स्थलों का रुख करना शुरू कर दिया है। इस वीकेंड पर शिमला और इसके साथ लगते पर्यटन स्थलों में सैलानियों की आमद बढ़ी है। शिमला होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन के उपाध्यक्ष प्रिंस कुकरेजा ने बताया कि ताज़ा बर्फ़बारी से शिमला में होटल की बुकिंग 40 फीसदी से बढ़कर 70 फ़ीसदी पहुंच गई है। उन्होंने बताया कि बर्फ़बारी से पर्यटन कारोबार ने रफ्तार पकड़ी है और आने वाले दिनों में भी दूसरे राज्यों से पर्यटकों के पहुंचने की संभावना है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 February 2024

new delhi, Judicial custody, Manish Sisodia and Sanjay Singh

नई दिल्ली। दिल्ली के राऊज एवेन्यू कोर्ट ने दिल्ली आबकारी घोटाले से जुड़े मनी लांड्रिंग मामले में आरोपित दिल्ली के पूर्व उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और राज्यसभा सदस्य संजय सिंह की न्यायिक हिरासत 17 फरवरी तक बढ़ा दी है। स्पेशल जज एमके नागपाल ने ये आदेश दिया। आज दोनों की न्यायिक हिरासत खत्म हो रही थी, जिसके बाद उन्हें कोर्ट में पेश किया गया। 20 जनवरी को कोर्ट ने दोनों की न्यायिक हिरासत आज तक बढ़ाई थी। आज ही कोर्ट ने संजय सिंह को राज्यसभा सदस्य के रूप में शपथ लेने के लिए राज्यसभा जाने की अनुमति दी। कोर्ट ने संजय सिंह को पुलिस हिरासत में 5 फरवरी को राज्यसभा जाने की अनुमति दी। ईडी ने संजय सिंह को 4 अक्टूबर को उनके सरकारी आवास पर पूछताछ के बाद गिरफ्तार किया था। संजय सिंह ने दिल्ली हाई कोर्ट में जमानत याचिका दायर की है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 February 2024

new delhi, LK Advani emotional. the honour

नई दिल्ली। पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी ने उन्हें भारत रत्न से सम्मानित किए जाने पर राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री का धन्यवाद दिया है। उन्होंने इस क्षण में दिवंगत दीनदयाल उपाध्याय और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को याद कर कहा कि उन्हें उनके साथ काम करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ। भाजपा के वयोवृद्ध नेता ने वक्तव्य जारी कर कहा कि 14 वर्ष की आयु में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का कार्यकर्ता बनने के बाद से उन्होंने देश सेवा और उन्हें दिए कार्य को समर्पण को पारितोषिक माना है। वे ‘इदं न मम’ से प्रेरित होकर यह मानते रहे हैं कि यह जीवन अपना नहीं बल्कि देश का है। आडवाणी ने अपनी दिवंगत पत्नी कमला और परिवार के साथ उन सभी को याद किया है जिनके साथ उन्हें कार्य करने का अवसर प्राप्त हुआ। साथ ही कामना की है कि देश तरक्की की नित नई ऊंचाइयां छूए। उल्लेखनीय है कि भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी को आज राष्ट्रपति सचिवालय की ओर से भारत रत्न दिए जाने की घोषणा की गई है। इस घोषणा के बाद पत्रकार उनके आवास पर पहुंचे। यहां वे भावुक अवस्था में मीडिया के सामने आए। आयु के कारण उनकी बेटी प्रतिभा आडवाणी ने पत्रकारों से बातचीत की। उन्होंने कहा कि उनका पूरा परिवार बेहद खुश है। आज उन्हें सबसे ज्यादा अपनी माँ (कमला आडवाणी) की याद आ रही है। उनके जीवन में उनका बहुत बड़ा योगदान था। जब उन्होंने सम्मान के बारे में बताया तो वे बहुत खुश हुए। उन्होंने जीवन के इस मोड़ पर उनका सम्मान करने के लिए प्रधानमंत्री मोदी और देश के लोगों को धन्यवाद दिया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 February 2024

chandigarh, Punjab Governor, resigns

चंडीगढ़। पंजाब के राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। राज्यपाल पुरोहित ने शनिवार को राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू को अपना इस्तीफा भेजा है। इससे पहले राज्यपाल ने गृहमंत्री अमित शाह के साथ मुलाकात की थी। भाजपा से लंबे समय से जुड़े रहे पुरोहित को 11 सितंबर 2021 को पंजाब का राज्यपाल नियुक्त किया गया था। इससे पहले वह वर्ष 2017 से 2021 तक तमिलनाडु और वर्ष 2016 से 2017 तक असम के राज्यपाल रहे। पुरोहित का जन्म 16 अप्रैल 1940 को राजस्थान के नवलगढ़ में हुआ था। पुरोहित इस पद पर दो साल 127 दिनों तक रहे। शनिवार को राष्ट्रपति को भेजे गए पत्र में पुरोहित ने कहा कि वह व्यक्तिगत कारणों तथा अन्य प्रतिबद्धताओं के चलते इस पद से इस्तीफा दे रहे हैं। पंजाब-हरियाणा में हुए समझौते के तहत पुरोहित के पास पंजाब का राज्यपाल होने के नाते चंडीगढ़ के प्रशासक का जिम्मा भी था। इस इस्तीफे के बाद राज्यपाल पद के अलावा चंडीगढ़ में प्रशासक का पद भी रिक्त हो गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 February 2024

new delhi,  government

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को युवाओं और राष्ट्र के विकास में खेलों के महत्व पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि सांसद खेल महाकुंभ में जो उत्साह और आत्मविश्वास दिखा, वह आज हर खिलाड़ी और युवा की पहचान बन गया है। खेल के प्रति सरकार की भावना मैदान पर खिलाड़ियों की भावना के अनुरूप है।   प्रधानमंत्री ने वीडियो संदेश के माध्यम से पाली सांसद खेल महाकुंभ को संबोधित किया। प्रधानमंत्री ने सांसद खेल महाकुंभ में पाली के 1100 से अधिक स्कूली बच्चों सहित 2 लाख से अधिक एथलीटों की भागीदारी की सराहना की। प्रधानमंत्री ने ऐसे खेल आयोजनों के आयोजन में वर्तमान सरकार के निरंतर प्रयासों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि सांसद खेल महाकुंभ जिलों और राज्यों के लाखों प्रतिभाशाली एथलीटों के लिए एक मंच प्रदान कर रहा है। उन्होंने कहा कि यह नई और उभरती प्रतिभाओं को तलाशने और उनका दोहन करने का भी एक माध्यम बन गया है। मोदी ने खास तौर पर महिलाओं को समर्पित एक प्रतियोगिता के आयोजन का भी जिक्र किया।   प्रधानमंत्री ने पिछले दशक में खेल बजट में तीन गुना वृद्धि, टॉप्स सहित विभिन्न योजनाओं के तहत सैकड़ों एथलीटों को वित्तीय सहायता का प्रावधान और देश भर में कई खेल केंद्रों की स्थापना पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि खेलो इंडिया गेम्स के तहत 3,000 से ज्यादा एथलीटों को 50,000 रुपये प्रति माह की मदद दी जा रही है। जमीनी स्तर पर लगभग 1,000 खेलो इंडिया केंद्रों में लाखों एथलीट प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं। उन्होंने हाल के एशियाई खेलों में 100 से अधिक पदकों के साथ एक नया रिकॉर्ड स्थापित करने वाले असाधारण प्रदर्शन के लिए भारतीय एथलीटों की भी सराहना की। प्रधानमंत्री ने 1 फरवरी को संसद में रखे गए केंद्रीय बजट के युवाओं पर केंद्रित बजट को रेखांकित किया। प्रधानमंत्री मोदी ने जोर दिया कि सड़क और रेलवे जैसे आधुनिक बुनियादी ढांचे पर 11 लाख करोड़ रुपये के निवेश से युवाओं को सबसे अधिक फायदा होगा। हमारे युवा 40,000 वंदे भारत प्रकार की बोगियों की घोषणा और आधुनिक बुनियादी ढांचे के विकास जैसी पहल के सबसे बड़े लाभार्थी हैं।   प्रधानमंत्री ने रोजगार के अवसर पैदा करने, उद्यमिता को बढ़ावा देने और खेल सहित विभिन्न क्षेत्रों में कौशल विकास को बढ़ावा देने के उद्देश्य से पहल के माध्यम से युवा सशक्तीकरण पर सरकार के फोकस की पुष्टि की। उन्होंने स्टार्टअप्स को टैक्स राहत के लिए 1 लाख करोड़ रुपये के फंड का जिक्र किया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 February 2024

new delhi, First survey ship ,

नई दिल्ली। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और नौसेना प्रमुख एडमिरल आर हरि कुमार की मौजूदगी में शनिवार को सर्वेक्षण पोत 'संध्याक' औपचारिक तौर पर नौसेना के बेड़े में शामिल कर लिया गया। नौसेना के बेड़े में इसे शामिल किया जाना हिंद महासागर क्षेत्र में भारत की समुद्री ताकत बढ़ाने की दिशा में महत्वपूर्ण कदम है। इसका उपयोग हाइड्रोग्राफी सर्वेक्षण में किया जाएगा जैसे चीनी नौसेना भारत और अन्य के निकट महासागर में करती है।   रक्षा मंत्रालय ने गार्डन रीच शिपबिल्डर्स एंड इंजीनियर्स लिमिटेड (जीआरएसई) के साथ 30 अक्टूबर, 2018 को 2435 करोड़ रुपये की कुल लागत से चार सर्वेक्षण पोतों (लार्ज) का निर्माण करने के लिए अनुबंध पर हस्ताक्षर किये थे। इन पोतों को इंडियन रजिस्टर ऑफ शिपिंग क्लासिफिकेशन सोसायटी के नियमों के अनुसार डिजाइन और निर्मित किया गया है। इस पोत की प्राथमिक भूमिका बंदरगाह तक पहुंचने वाले मार्गों का सम्पूर्ण तटीय और डीप-वॉटर हाइड्रोग्राफिक सर्वेक्षण करना और नौवहन मार्गों का निर्धारण करना होगी। इसके परिचालन क्षेत्र में ईईजेड, एक्सटेंडेड कॉन्टिनेंटल शेल्फ तक की समुद्री सीमाएं शामिल हैं। ये पोत रक्षा और नागरिक अनुप्रयोगों के लिए समुद्र विज्ञान और भूभौतिकीय डेटा भी एकत्र करेंगे।   इन पोतों की दूसरी भूमिका युद्ध या आपातकालीन स्थिति के दौरान अस्पताल के रूप में कार्य करने की होगी। लगभग 3400 टन के विस्थापन के साथ 110 मीटर लंबा और 16 मीटर चौड़ा 'संध्याक' अत्याधुनिक हाइड्रोग्राफिक उपकरणों जैसे डेटा अधिग्रहण और प्रसंस्करण प्रणाली, स्वायत्त अंडरवाटर वाहन, रिमोट चालित वाहन, डीजीपीएस लॉन्ग रेंज पोजिशनिंग सिस्टम, डिजिटल साइड स्कैन सोनार से लैस है। दो डीजल इंजनों से संचालित यह पोत 18 समुद्री मील से अधिक की गति से चलने में सक्षम है। ये जहाज मौजूदा संध्याक श्रेणी के सर्वेक्षण जहाजों की जगह लेंगे, जो समुद्र विज्ञान और भूभौतिकीय डेटा एकत्र करने के लिए नई पीढ़ी के हाइड्रोग्राफिक उपकरणों से लैस हैं।   इस प्रोजेक्ट का पहला सर्वेक्षण जहाज 'संध्याक' (यार्ड 3025) जीआरएसई ने बनाया है, जबकि शेष तीन जहाजों के निर्माण की परिकल्पना एलएंडटी शिपबिल्डिंग, कट्टुपल्ली में की गई है। इस पोत के निर्माण की प्रक्रिया 12 मार्च, 2019 को शुरू हुई और इस पोत को 05 दिसंबर, 2021 को लॉन्च किया गया। बंदरगाह और समुद्र में व्यापक परीक्षणों से गुजरने के बाद पिछले साल 04 दिसंबर को इसे भारतीय नौसेना को सौंपा गया था। संध्याक का निर्माण 80 प्रतिशत से अधिक स्वदेशी सामग्री के साथ किया गया है। इस परियोजना का संचालन भारतीय नौसेना के युद्धपोत डिजाइन ब्यूरो ने किया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 February 2024

mumbai,  Ulhasnagar police station, Shinde group leader shot

मुंबई। उल्हासनगर के हिल लाइन पुलिस स्टेशन में शिंदे समूह के कल्याण शहर प्रमुख पर फायरिंग करने के आरोप में भारतीय जनता पार्टी विधायक गणपत गायकवाड़ सहित तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया। इस घटना में घायल शिंदे समूह के महेश गायकवाड़ का इलाज ज्युपिटर अस्पताल में चल रहा है। हिल लाइन पुलिस के अनुसार, उल्हासनगर में जमीन विवाद को लेकर गणपत गायकवाड़ और महेश गायकवाड़ को पुलिस स्टेशन पर बुलाया गया था। थाने में भाजपा विधायक गणपत गायकवाड़ ने महेश गायकवाड़ पर फायरिंग कर दी। महेश गायकवाड़ को फौरन ज्युपिटर अस्पताल में भर्ती कराया गया। उनकी हालत स्थिर बताई जा रही है। इस संबंध में भाजपा विधायक गणपत गायकवाड़, हर्षल केने और संदीप सरवनकर को गिरफ्तार किया गया है। उप मुख्यमंत्री अजीत पवार ने इस घटना पर कड़ी नाराजगी व्यक्त की है। उन्होंने कहा कि हर विधायक को लोगों के साथ उचित व्यवहार करना चाहिए। पवार ने कहा है कि इस संबंध में वे देवेंद्र फडणवीस और मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे से चर्चा करेंगे। राकांपा सांसद सुप्रिया सुले ने कहा कि पुलिस स्टेशन में फायरिंग की घटना ने कानून व्यवस्था की धज्जियां उड़ा दी हैं। देवेंद्र फडणवीस गृह विभाग का कामकाज देखने में विफल हैं। उन्हें अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। सुप्रिया सुले ने कहा कि वे केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात करेंगी। विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष विजय बडेट्टीवार ने कहा कि भाजपा और शिंदे समूह के बीच पुलिस स्टेशन में फायरिंग की घटना ने राज्य की कानून व्यवस्था को तार-तार कर दिया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 February 2024

new delhi, Muslim organizations ,Gyanvapi Mosque

नई दिल्ली। ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के नेतृत्व में देश के प्रमुख मुस्लिम संगठनों के प्रतिनिधियों ने वाराणसी की निचली अदालत के जरिए ज्ञानवापी मस्जिद के तहखाने में पूजा की अनुमति दिए जाने के फैसले पर आपत्ति जताई है। मुस्लिम संगठनों के प्रतिनिधियों ने इस मामले पर देश की राष्ट्रपति से मिलने का समय मांगा है। आईटीओ स्थित जमीअत के प्रधान कार्यालय के मदनी हॉल में शुक्रवार को संवाददाता सम्मेलन में इस फैसले को पूरी तरह से गैर-जिम्मेदाराना और बेबुनियाद दलीलों पर आधारित बताते हुए इसमें प्रशासन और हिंदू पक्षकार की मिली भगत होने का भी आरोप लगाया गया। साथ ही इस मामले की सारी न्याय प्रक्रिया से अवगत कराने के लिए चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया से भी मुलाकात करने का फैसला लिया गया। संयुक्त संवाददाता सम्मेलन को मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के अध्यक्ष मौलाना खालिद सैफुल्लाह रहमानी, जमीअत उलमा-ए-हिंद के अध्यक्ष मौलाना अरशद मदनी, अमीर-ए-जमात अहले हदीस मौलाना असगर अली इमाम सल्फी मेहंदी, जमीअत उलमा-ए-हिंद के अध्यक्ष मौलाना महमूद मदनी, जमात-ए-इस्लामी हिंद के उपाध्यक्ष मलिक मोहतसिन खान, सांसद और एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी, मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड प्रवक्ता कासिम रसूल इलियास और सहायक प्रवक्ता कमाल फारूकी ने संबोधित किया। मुस्लिम नेताओं ने कहा कि किसी भी छीनी हुई जगह या जबरदस्ती की जगह पर मस्जिद नहीं बनाई जा सकती है। उनका कहना है कि ज्ञानवापी मस्जिद व अन्य सभी मस्जिदों का निर्माण इस्लाम के उसूलों के अनुसार जमीन खरीद कर किया गया है। मस्जिद इस्लाम का अहम हिस्सा है और इस्लामी सिद्धांतों पर अमल करते हुए ही मस्जिदों का निर्माण किया जाता है। मुस्लिम नेताओं ने यह भी कहा है कि ज्ञानवापी मस्जिद पर आए निचली अदालत के फैसले से भारतीय मुसलमान में काफी बेचैनी है। मुस्लिम नेताओं का कहना है कि जिला जज ने अपनी सर्विस के अंतिम दिन बिना किसी ठोस सबूत के और बेबुनियाद जानकारियों पर फैसला दिया है़, जिससे न्याय के प्रति लोगों का विश्वास कम हुआ है। उनका कहना है कि ज्ञानवापी मस्जिद के तहखाना में कभी भी कोई मूर्ति नहीं थी और ना ही वहां पर कभी पूजा की गई है।लोकतांत्रिक देश में न्यायालय पर हमेशा अल्पसंख्यकों और कमजोर वर्गों का भरोसा रहा है, लेकिन हाल-फिलहाल में आ रहे अदालती फैसलों से मुसलमान का विश्वास डगमगाने लगा है। मुस्लिम नेताओं का कहना है कि सुप्रीम कोर्ट 1991 में संसद से पास धार्मिक स्थल सुरक्षा कानून का पालन कराने में खामोशी अपनाए हुए हैं। अगर सुप्रीम कोर्ट इस कानून का सख्ती से पालन कराए तो निचली अदालतें कभी भी इस तरह के फैसले नहीं देंगी। 1991 का कानून 15 अगस्त 1947 स्वतंत्रता प्राप्ति के दिन तक जो धर्मस्थल जिस स्थिति में है, उसी स्थिति में कायम रखने की गारंटी देता है। इसलिए इस कानून का सख्ती से पालन करने से ही इस तरह की तमाम समस्याओं का समाधान निकाला जा सकता है। एक सवाल के जवाब में मुस्लिम नेताओं ने कहा कि उन्होंने राष्ट्रपति से मिलने का फैसला इसलिए किया है कि उनसे मुलाकात करके वह अपनी सारी बातें उनके सामने रखेंगे और वह उसका समाधान निकालने की कोशिश करेंगे। उन्होंने कहा कि जरूरत पड़ी तो वह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से भी मिलने से गुरेज नहीं करेंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 February 2024

kolkata, Mamta sat on strike, demanded payment

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र से विभिन्न सामाजिक कल्याण योजनाओं के लिए राज्य के बकाए के भुगतान की मांग को लेकर शुक्रवार को कोलकाता में धरना प्रदर्शन शुरू किया। बनर्जी ने अपनी पार्टी तृणमूल कांग्रेस के नेताओं के साथ शहर के मध्य स्थित मैदान थाना इलाके में रेड रोड पर बीआर आंबेडकर की प्रतिमा के सामने प्रदर्शन शुरू किया। अधिकारियों के मुताबिक मंच के बगल में तंबू लगाया गया है ताकि बनर्जी प्रशासन संबंधी जरूरी काम कर सकें। मुख्यमंत्री का दावा है कि केंद्र की भाजपा नीत सरकार के पास विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के लिए राज्य का हजारों करोड़ रुपये बकाया है। उन्होंने आंबेडकर की प्रतिमा पर श्रद्धा सुमन अर्पित करने के बाद धरना-प्रदर्शन शुरू किया। इससे पहले, तृणमूल के राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी ने पार्टी विधायकों, सांसदों, मंत्रियों और मनरेगा कार्यकर्ताओं के एक समूह के साथ नयी दिल्ली के जंतर-मंतर पर प्रदर्शन किया था और कोलकाता में राजभवन के बाहर पांच दिन तक धरना दिया था। बनर्जी के नेतृत्व में पिछले वर्ष मार्च में भी इसी तरह का दो दिवसीय धरना दिया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 February 2024

new delhi, DK Suresh

नई दिल्ली। राज्यसभा में शुक्रवार को कर्नाटक से सांसद डीके सुरेश के कथित दक्षिण भारत के लिए अलग देश की मांग से जुड़े एक बयान का मुद्दा उठाया गया, जिस पर नेता सदन पीयूष गोयल और नेता विपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने बयान दिया। सभापति की अनुमति से पीयूष गोयल ने सदन की कार्यवाही प्रारंभ होने पर इस मुद्दे को उठाया। घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष से इस संबंध में स्पष्टीकरण मांगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेता कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री के भाई हैं और दूसरे सदन के सांसद हैं। कांग्रेस की सोच विभाजनकारी है और उसकी कार्यपद्धति इसका उदाहरण रही है। उन्होंने कहा कि सदन में चुने जाने पर हम संविधान और देश की अखंडता बनाए रखने की शपथ लेते हैं। इस पर कांग्रेस अध्यक्ष एवं विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि दूसरे सदन के नेता हैं और उन्होंने स्वयं ऐसा कहा है कि उनका बयान यह नहीं था। सभापति जगदीप धनखड़ ने मामले को गंभीर बताया और कहा कि सदन को एकजुट होकर इस तरह के बयान की निंदा करनी चाहिए । खड़गे ने भी स्थिति को स्पष्ट करते हुए कहा कि इस तरह का बयान किसी भी पार्टी के नेता का क्यों न हो, हम उसकी निंदा करते हैं। कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक देश एक है। कांग्रेस नेताओं ने देश के लिए अपनी जान दी है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 February 2024

ranchi, Champai Soren,Chief Minister of Jharkhand

रांची। झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के विधायक दल के नेता चंपई सोरेन ने शुक्रवार दोपहर 12:21 बजे 12वें मुख्यमंत्री के तौर पर पद की शपथ ली। राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन ने उन्हें मनोनीत मुख्यमंत्री के रूप में शपथ दिलाई।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 February 2024

new delhi, Kharge cornered , Rajya Sabha

नई दिल्ली। राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने बढ़ती महंगाई और किसानों के मुद्दे को लेकर राज्यसभा में शुक्रवार को केन्द्र सरकार पर सवाल खड़े किए। खड़गे ने आज राष्ट्रपति के अभिभाषण पर आयोजित चर्चा के दौरान कहा कि मोदी सरकार को देश की आम जनता के हितों की परवाह नहीं है। इस सरकार को किसानों के हितों की चिंता नहीं है। उन्होंने कहा कि बढ़ती महंगाई से आम जनता परेशान है। रोजमर्रा की जरूरत के सामानों के दाम आसमान छू रहे हैं। आज टमाटर, प्याज, दूध, आटा, चावल, अरहर की दाल सभी के दाम दोगुने हो गए हैं लेकिन मोदी सरकार महंगाई पर कभी नहीं बोलती है। हालांकि खड़गे के इस बयान पर राज्यसभा में नेता सदन पीयूष गोयल ने आसन के माध्यम से आपत्ति जताई और खड़गे से इस तथ्य का प्रमाण पेश करने का अनुरोध किया। तभी खड़गे ने कहा कि वो और गोयल एक दिन बाजार खरीददारी के लिए जाएंगे और तय कर लेंगे कि कौन-कौन से समान के दाम दोगुने हुए हैं। खड़गे ने कहा कि मोदी सरकार ने किसानों की आमदनी दोगुनी और न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) बढ़ाने का वादा किया था लेकिन आज किसानों की सालाना आमदनी में 1.5 फीसदी की गिरावट आ गई है। पिछले 05 साल में कृषि बजट का 01 लाख करोड़ रुपये से भी अधिक बजट सरेंडर किया गया है। खड़गे ने अपने संबोधन के दौरान अग्निवीर योजना को युवा विरोधी करार देते हुए कहा कि हाल ही में जनरल एमएम नरवणे ने बताया कि 'अग्निपथ योजना' में 75 फीसदी लोगों को लेना था और 25 फीसदी लोगों को रिलीज करना था लेकिन आज स्थिति उल्टी हो गई है। आज इस योजना में 25 फीसदी रिटेंशन और 75 फीसदी रिलीज किया जा रहा है। बिना किसी से सलाह लिए प्रधानमंत्री मोदी ने ये योजना वायुसेना और नौसेना पर भी लागू कर दी। खड़गे ने अपने संबोधन में भारत-चीन सीमा विवाद का मुद्दा भी उठाया और प्रधानमंत्री से मणिपुर के मुद्दे पर भी आसन के माध्यम से सवाल पूछा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री को बताना चाहिए कि वह मणिपुर की यात्रा क्यों नहीं कर रहे हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 February 2024

kolkata, Bharat Jodo Nyay Yatra , Murshidabad

कोलकाता। कांग्रेस सांसद राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा गुरुवार को पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद जिले में पहुंची। कांग्रेस का गढ़ कहे जाने वाले इस क्षेत्र में राहुल गांधी को देखने के लिए लोगों की भीड़ सड़कों पर उमड़ पड़ी। यहां के बहरमपुर से अधीर रंजन चौधरी सांसद हैं, जो यात्रा में राहुल गांधी के साथ हैं। इस्लामपुर से बिहार में प्रवेश करने के साथ ही विगत सोमवार को पश्चिम बंगाल में यात्रा का पहला चरण पूरा हो गया था। मालदा जिले के रतुआ के रास्ते यात्रा ने बुधवार को पश्चिम बंगाल में फिर से प्रवेश किया। राहुल गांधी की यात्रा अब तक पश्चिम बंगाल के छह जिलों में 523 किमी की दूरी तय करते हुए दार्जिलिंग, जलपाईगुड़ी, अलीपुरद्वार और उत्तर दिनाजपुर को कवर कर चुकी है, जबकि दूसरे चरण में यह मालदा और मुर्शिदाबाद से गुजरेगी। कभी कांग्रेस का गढ़ रहे उत्तर बंगाल में यात्रा का पार्टी कार्यकर्ताओं ने पूरे उत्साह से स्वागत किया और रास्ते में राहुल गांधी ने स्थानीय लोगों से बातचीत भी की।   कांग्रेस नेताओं ने कहा कि पार्टी को पश्चिम बंगाल के जलपाईगुड़ी, मालदा और मुर्शिदाबाद जिलों में जनसभा और यात्रा व्यवस्था की अनुमति के लिए काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। मणिपुर से 14 जनवरी को शुरू हुई भारत जोड़ो न्याय यात्रा 67 दिनों में 6,713 किमी की दूरी तय करेगी और 15 राज्यों के 110 जिलों को कवर करते हुए 20 मार्च को मुंबई में इसका समापन होगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 February 2024

new delhi, developed India ,Prime Minister

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गुरुवार को पेश किए गए बजट की सराहना करते हुए इसे केवल एक अंतरिम बजट नहीं बल्कि एक समावेशी और अभिनव बजट बताया। उन्होंने कहा कि यह बजट 2047 के विकसित भारत की नींव को मजबूत करने की गारंटी देता है।   प्रधानमंत्री ने वीडियो संदेश के माध्यम से बजट पर टिप्पणी करते हुए कहा, “यह समावेशी और अभिनव बजट है। इसमें निरंतरता का आत्मविश्वास है। ये बजट विकसित भारत के चार स्तंभ- युवा, गरीब, महिला और किसान सभी को सशक्त करेगा।” मोदी ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की दूरदर्शिता की सराहना करते हुए कहा, “निर्मला सीतारमण का बजट देश के भविष्य के निर्माण का बजट है। यह बजट 2047 तक विकसित भारत की नींव को मजबूत करने की गारंटी देता है।”   प्रधानमंत्री ने कहा कि यह बजट युवा भारत की आकांक्षाओं का प्रतिबिंब है। उन्होंने बजट में लिए गए दो महत्वपूर्ण निर्णयों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि रिसर्च और इनोवेशन के लिए एक लाख करोड़ रुपये का फंड बनाने की घोषणा की गई है। उन्होंने बजट में स्टार्टअप्स के लिए टैक्स छूट के विस्तार पर भी प्रकाश डाला। प्रधानमंत्री ने कहा कि राजकोषीय घाटे को नियंत्रण में रखते हुए कैपिटल एक्सपेंडिचर को 11 लाख 11 हजार 111 करोड़ रुपये की ऐतिहासिक ऊंचाई दी गई है। अर्थशास्त्रियों की भाषा में प्रधानमंत्री ने कहा कि यह एक प्रकार का स्वीट स्पॉट है। उन्होंने कहा कि यह भारत में 21वीं सदी के आधुनिक बुनियादी ढांचे के निर्माण के साथ-साथ युवाओं के लिए रोजगार के लाखों नए अवसर पैदा करेगा। उन्होंने वंदे भारत मानक की 40,000 आधुनिक बोगियों का निर्माण करने और उन्हें सामान्य यात्री ट्रेनों में स्थापित करने की घोषणा के बारे में भी बताया, जिससे देश के विभिन्न रेल मार्गों पर करोड़ों यात्रियों की सुविधा और यात्रा अनुभव में वृद्धि होगी। महत्वाकांक्षी लक्ष्य निर्धारित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, “हम एक बड़ा लक्ष्य तय करते हैं, उसे हासिल करते हैं और फिर अपने लिए उससे भी बड़ा लक्ष्य तय करते हैं।” उन्होंने गरीबों और मध्यम वर्ग के कल्याण के लिए सरकार के प्रयासों पर प्रकाश डालते हुए गांवों और शहरों में 4 करोड़ से अधिक घरों के निर्माण और 2 करोड़ और नए घर बनाने का लक्ष्य बढ़ाने की जानकारी दी। महिला सशक्तीकरण पर जोर देते हुए मोदी ने कहा, “हमने दो करोड़ महिलाओं को लखपति दीदी बनाने का लक्ष्य रखा था। अब इस लक्ष्य को बढ़ाकर तीन करोड़ लखपति दीदी बनाने का कर दिया गया है।” प्रधानमंत्री ने गरीबों को सहायता देने, आंगनवाड़ी और आशा कार्यकर्ताओं को इसका लाभ देने के लिए आयुष्मान भारत योजना की प्रशंसा की। मोदी ने इस बजट में गरीबों और मध्यम वर्ग के लिए नए अवसर पैदा करके उन्हें सशक्त बनाने पर सरकार का जोर दिया। उन्होंने रूफ टॉप सोलर अभियान का उल्लेख किया, जहां एक करोड़ परिवार मुफ्त बिजली का लाभ उठाएंगे, साथ ही सरकार को अतिरिक्त बिजली बेचकर प्रति वर्ष 15 से 20 हजार रुपये की आय भी अर्जित करेंगे। प्रधानमंत्री ने आज घोषित आयकर छूट योजना का उल्लेख किया जिससे मध्यम वर्ग के लगभग एक करोड़ नागरिकों को राहत मिलेगी। बजट में किसान कल्याण को लेकर लिए गए प्रमुख फैसलों पर मोदी ने नैनो डीएपी के उपयोग, पशुओं के लिए नई योजना, पीएम मत्स्य सम्पदा योजना के विस्तार और आत्मनिर्भर तेल बीज अभियान का उल्लेख किया, जिससे किसानों की आय बढ़ेगी और खर्च कम होंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 February 2024

new delhi, women empowerment, interim budget

नई दिल्ली। केन्द्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने गुरुवार को संसद में अंतरिम बजट 2024-25 पेश करते हुए कहा कि उद्यमिता, जीवनयापन में आसानी और उनके लिए सम्मान के माध्यम से महिलाओं के सशक्तीकरण ने इन दस वर्षों में गति पकड़ी है। उन्होंने कहा कि महिला उद्यमियों को तीस करोड़ मुद्रा योजना ऋण दिये गये हैं। दस वर्षों में उच्च शिक्षा में महिला नामांकन में 28 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। साइंस, टेक्नोलॉजी, इंजीनियरिंग, मैथेमैटिक्स (स्टेम) पाठ्यक्रमों में लड़कियों और महिलाओं का नामांकन 43 प्रतिशत है - जो दुनिया में सबसे अधिक है। ये सभी उपाय कार्यबल में महिलाओं की बढ़ती भागीदारी में परिलक्षित हो रहे हैं। उन्होंने अपने बजट भाषण में कहा कि उद्यमिता के माध्यम से महिलाओं का सशक्तीकरण, जीवनयापन में आसानी और उनके लिए सम्मान को गति मिली है। महिला उद्यमियों को 30 करोड़ मुद्रा योजना ऋण दिए गए। इसके साथ केन्द्र सरकार ने 'तीन तलाक' को अवैध बना दिया और लोकसभा और राज्य विधानमंडल में महिलाओं के लिए एक तिहाई सीटों के आरक्षण को पारित कर दिया है। बजट में उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में पीएम आवास योजना के तहत 70 प्रतिशत से अधिक घर महिलाओं को एकल या संयुक्त मालिक के रूप में दिए गए हैं। वित्त मंत्री ने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री का दृढ़ विश्वास है, हमें चार प्रमुख जातियों पर ध्यान केंद्रित करने की जरूरत है। “वे हैं, ‘गरीब’ (गरीब), ‘महिलाएं’ (महिला), ‘युवा’ (युवा) और ‘अन्नदाता’ (किसान)। उनकी जरूरतें, उनकी आकांक्षाएं और उनका कल्याण हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है।” उन्होंने कहा, ''जब वे प्रगति करते हैं तो देश प्रगति करता है।'' इन चारों को अपने जीवन को बेहतर बनाने की तलाश में सरकारी सहायता की आवश्यकता है और प्राप्त भी होती है। उन्होंने इस बात पर प्रकाश डाला कि उनका सशक्तीकरण और कल्याण देश को आगे बढ़ाएगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 February 2024

new delhi,Lok Sabha , proceedings adjourned

नई दिल्ली। लोकसभा और राज्यसभा की कार्यवाही बुधवार को थोड़े समय की कार्यवाही के बाद दिनभर के लिए स्थगित कर दी गई। इससे पहले राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने दोनों सदनों की संयुक्त बैठक में अभिभाषण दिया।   राज्यसभा में आज तीन नए सांसदों सतनाम सिंह संधू, नारायण दास गुप्ता और स्वाति मालीवाल ने सदस्यता की शपथ ली। सभापति ने 11 सदस्यों का निलंबन रद्द किए जाने की घोषणा की। उन्होंने बताया कि विशेषाधिकार समिति ने उन्हें विशेषाधिकार के उल्लंघन और राज्यों की परिषद की अवमानना का दोषी पाया और सिफारिश की कि उनकी निलंबन अवधि को पर्याप्त सजा के रूप में माना जाए।   उपराष्ट्रपति और सभापति जगदीप धनखड़ ने संसद सदस्यों सदानंद शेट तनावड़े और साकेत गोखले को जन्मदिन की शुभकामनाएं दीं। जगदीप धनखड़ ने राज्यसभा में पूर्व सांसद हरि शंकर भाभड़ा को श्रद्धांजलि अर्पित की। उपराष्ट्रपति ने अपने शोक संदेश में कहा कि भाभड़ा को सार्वजनिक जीवन में उच्च मानकों का उदाहरण देने और उनके द्वारा संभाले गए पदों को सार्थक करने के लिए याद किया जाएगा।   उधर, लोकसभा में अध्यक्ष ओम बिरला ने भद्रेश्वर तांती (सदस्य, 8वीं लोकसभा) और सोनावणे प्रताप नारायणराव (सदस्य, 15वीं लोकसभा) के निधन पर शोक संदेश दिया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 January 2024

dehradoon, UCC , Dhami

देहरादून। उत्तराखंड शीघ्र ही समान नागरिक संहिता कानून लागू करने वाला पहला प्रदेश बन जाएगा। इस संदर्भ में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बुधवार को बताया कि लोकसभा चुनाव से पहले सरकार राज्य में यूसीसी को लागू करने की तैयारी कर रही है। मुख्यमंत्री धामी ने बताया कि इसके लिए 3 फरवरी को कैबिनेट की बैठक भी बुला ली गई है। उन्होंने साफ कर दिया है कि 2 फरवरी को यूसीसी के लिए गठित कमेटी अपनी रिपोर्ट सरकार को सौंपने वाली है। इसके बाद 3 फरवरी को कैबिनेट कि बैठक बुलाई गई है। इसमें यूसीसी के ड्राफ्ट को मंजूरी देने के साथ इस पर चर्चा की जाएगी और 5 फरवरी से शुरू होने जा रहे विशेष सत्र में यूसीसी के विधेयक को पारित कराकर राज्य में लागू करने का कार्य करेगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 January 2024

mumbai, Petition filed , High Court

मुंबई। ओबीसी कल्याण फाउंडेशन ने बुधवार को बाम्बे हाई कोर्ट में मराठा आरक्षण के लिए सरकार के मसौदे के विरोध में एक जनहित याचिका दाखिल की है। इस याचिका की सुनवाई के बारे में कोर्ट ने अभी निर्णय नहीं लिया है। ओबीसी कल्याण फाउंडेशन की ओर से वकील मंगेश ससाने ने राज्य सरकार की ओर से मराठा आरक्षण के लिए 26 जनवरी को जारी मसौदे को सीधे चुनौती देते हुए बुधवार को बाम्बे हाई कोर्ट में जनहित याचिका दाखिल की है। उन्होंने अपनी याचिका में कहा है कि सगे संबंधी की परिभाषा को संविधान के खिलाफ नहीं बदला जाना चाहिए। राज्य सरकार ने 26 जनवरी को सरकारी अवकाश के दिन आधी रात को सगे संबंधी और मातृ आधारित वंशावली का उल्लेख किया है, जबकि संविधान में पितृ आधारित वंशावली ही अधिकृत है। मंगेश ससाने ने राज्य सरकार की ओर से जारी मसौदे को ओबीसी समुदाय के साथ अन्याय बताया है।   उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार की ओर जारी मराठा समाज के सरकारी मसौदे का जोरदार विरोध किया जा रहा है और सूबे के कई जिलों में सरकारी मसौदे की प्रतियां जलाई जा चुकी हैं। ओबीसी समाज इस मसौदे के विरुद्ध जोरदार आंदोलन की तैयारी कर रहा है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 January 2024

new delhi, President Murmu ,

नई दिल्ली। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने आज (बुधवार) संक्षिप्त बजट सत्र के पहले दिन संसद के दोनों सदनों के संयुक्त संबोधन में कहा कि अमृतकाल की शुरुआत में यह भवन बना है। यहां एक भारत, श्रेष्ठ भारत की महक भी है। उन्होंने विश्वास जताया कि इस नए भवन में नीतियों पर सार्थक संवाद होगा। यह नीतियां आजादी के अमृतकाल में विकसित भारत का निर्माण करेंगी। उन्होंने कहा, '' हम सभी बचपन से गरीबी हटाओ के नारे सुनते आ रहे हैं लेकिन अब हम बड़े पैमाने पर गरीबी को दूर होते देख रहे हैं। नीति आयोग के अनुसार मेरी सरकार के एक दशक के कार्यकाल में लगभग 25 करोड़ देशवासी गरीबी से बाहर निकले। '' राष्ट्रपति मुर्मू ने कहा, ''बीता वर्ष भारत के लिए ऐतिहासिक उपलब्धियों से भरा रहा है। भारत सबसे तेजी से विकसित होती बड़ी अर्थव्यवस्था बना। लगातार दो तिमाही से भारत की विकास दर 7.5 फीसदी से ज्यादा रही है। भारत को अपना सबसे बड़ा समुद्री पुल अटल सेतु मिला। भारत को अपनी पहली नमो भारत ट्रेन और पहली अमृत भारत ट्रेन मिली। भारत की एयरलाइन कंपनी ने दुनिया की सबसे बड़ी एयरक्राफ्ट डील की।   उन्होंने कहा, ''जम्मू-कश्मीर आरक्षण कानून से वहां के जनजातीय समूह को प्रतिनिधि का अधिकार मिलेगा। मेरी सरकार परीक्षाओं में हो रही गड़बड़ी को लेकर छात्रों की चिंता से सजग है।'' राष्ट्रपति ने कहा, ''तीन दशक बाद नारी शक्ति वंदन अधिनियम पारित करने के लिए मैं आपकी सराहना करती हूं।''

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 January 2024

new delhi, Delhi-NCR , air becomes poisonous

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और सीमावर्ती राज्यों के शहर जबरदस्त शीतलहर की चपेट में हैं। दिल्ली, नोएडा, गाजियाबाद, गुरुग्राम और फरीदाबाद में आज सुबह घना कोहरा छाया रहा।सुबह साढ़े चार बजे से छह बजे के बीच विजिबिलिटी न के बराबर रही। राजधानी दिल्ली के धौला कुआं, कर्तव्य पथ, लाल किला क्षेत्र के अलावा नोएडा और गुरुग्राम के साइबर सिटी क्षेत्र कोहरे में डूबे रहे। इस साल 2024 की जनवरी में दिल्लीवासियों ने कड़ाके की सर्दी ही नहीं झेली, पिछले कुछ वर्षों की तुलना में कहीं अधिक प्रदूषित हवा में भी सांस ली। न केवल ''बहुत खराब'' श्रेणी के एयर इंडेक्स वाले दिन बढ़ गए बल्कि एक भी दिन ''मध्यम'' और ''संतोषजनक'' श्रेणी की हवा नहीं मिली। महीने का औसत एयर इंडेक्स भी जनवरी 2016 के बाद सबसे ज्यादा दर्ज किया गया।   केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के मुताबिक इस साल जनवरी में दो दिन दिल्ली का एक्यूआई 400 से ऊपर यानी ''गंभीर'' श्रेणी में रहा। 27 दिन 300 से 400 के बीच यानी ''बहुत खराब'' जबकि एक दिन 200 से 300 के बीच यानी ''खराब'' श्रेणी में दर्ज हुआ। किसी भी दिन एयर इंडेक्स 200 से नीचे नहीं गया। बोर्ड ने मई 2015 से एयर इंडेक्स मापना शुरू किया था, तब से अब तक इस साल दूसरी सबसे प्रदूषित जनवरी रही है। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अनुसार, मंगलवार को दिल्ली का एक्यूआई समग्र तौर पर 357 रहा। इस स्तर की हवा को ''बहुत खराब'' श्रेणी में रखा जाता है। सोमवार को यह 356 था। और एक खास बात यह है कि राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में इस महीने 30 जनवरी तक औसत अधिकतम तापमान 17.7 डिग्री सेल्सियस रहा, जो 13 वर्षों में सबसे कम है। भारत मौसम विज्ञान विभाग के आंकड़ों के अनुसार, इस अवधि के दौरान राष्ट्रीय राजधानी में औसत न्यूनतम तापमान 6.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो 13 वर्षों में दूसरी बार सबसे कम रहा। दिल्ली के कुछ हिस्सों में कल (मंगलवार) सुबह कोहरा छाया रहा और सफदरजंग वेधशाला ने न्यूनतम तापमान 11.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया। भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, सुबह साढ़े आठ बजे सापेक्षिक आर्द्रता 100 प्रतिशत दर्ज की गई। कोहरे की वजह से सड़क, रेल और हवाई यातायात पर भी बड़ा असर पड़ा है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 January 2024

patna, Rahul

पटना। बिहार में सत्ता परिवर्तन के बाद लालू यादव की पार्टी राजद को जोर का झटका लगा है। साथ ही कांग्रेस की भारत जोड़ा न्याय यात्रा पर भी इसका खासा असर पड़ा है। पूर्णिया में राहुल गांधी के साथ एक मंच पर लालू यादव और तेजस्वी यादव के नहीं होने से कांग्रेस को एक बड़ा झटका लगा है। राहुल बिहार में अपने सहयोगी दलों के साथ जो ताकत दिखाना चाहते थे, वैसा कुछ भी वे नहीं कर पाए हैं। बिहार में अपनी मजबूत ताकत दिखाने के लिए कांग्रेस की ओर से भारत जोड़ी न्याय यात्रा किशनगंज के रास्ते बिहार में प्रवेश कर चुकी है। उम्मीद थी कि 30 जनवरी को पूर्णिया में होने वाली राहुल गांधी की जनसभा में कांग्रेस अपने सहयोगी दलों को एक मंच पर लाकर एकजुटता का संदेश देगी लेकिन लालू यादव और तेजस्वी यादव को नौकरी के बदले जमीन घोटाले में पूछताछ के लिए ईडी द्वारा बुलाने से कांग्रेस और राहुल गांधी को झटका लगा है। राहुल गांधी की पूर्णिया जनसभा में कांग्रेस अपनी ताकत दिखाना चाहती है। इसके लिए कांग्रेस ने पिछले करीब 15 दिनों से बड़ी तैयारी की थी। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अखिलेश सिंह ने आईएनडीआई गठबंधन के घटक दलों को भी आमंत्रित किया था। इसमें लालू यादव और तेजस्वी यादव भी शामिल थे। उम्मीद थी कि लालू और तेजस्वी के पूर्णिया में राहुल गांधी के साथ मंच साझा करने से भरी भीड़ जुटती। इतना ही नहीं राहुल, लालू और तेजस्वी के एक साथ मंच पर आने से कांग्रेस और राजद की एकजुटता का भी परिदृश्य दिखता लेकिन ईडी की पूछताछ ने कांग्रेस की उम्मीदों पर पानी फेर दिया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 January 2024

new delhi ,Nitish Kumar , Kharge

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर मौकापरस्ती और लालच की राजनीति करने का आरोप लगाया है। खड़गे ने मंगलवार को बिहार की जनता के लिए एक वीडियो संदेश जारी कर कहा कि बिहार लोकतंत्र की जन्मभूमि है। यहां कई महान नेता व स्वतंत्रता सेनानियों का जन्म हुआ है लेकिन बड़े दुख के साथ कहना पड़ता है कि आज इस भूमि पर लोग मौकापरस्ती और लालच की राजनीति कर रहे हैं। जो बिहार दुनिया को प्रकाश देता था, वह अब आया राम-गया राम, आया कुमार-गया कुमार की राजनीतिक प्रयोगशाला बन गया है। खड़गे ने कहा कि कांग्रेस हमेशा जनता के साथ है। हमारे पैर छोटी-मोटी चीजों से डगमगाने वाले नहीं है। कोई रहे या जाए, हम अपने उसूलों को छोड़ने वाले नहीं हैं। हम में महात्मा गांधी, सरदार पटेल, राजेंद्र बाबू, मौलाना आजाद की रूह है। कांग्रेस पार्टी ने किसी को धोखा नहीं दिया है। महागठबंधन की सरकार ने वर्षों से विकास यात्रा को गति देने का प्रयास किया। खड़गे ने कहा कि संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) सरकार के समय में बिहार के विकास के लिए दो लाख करोड़ रुपये दिए गए। इसमें छह पावर प्रोजेक्ट समेत कई बड़े काम हुए लेकिन मोदी सरकार में बिहार के साथ हमेशा सौतेला व्यवहार किया गया। जो मदद मिलती थी उसको भी बंद कर दिया।   उल्लेखनीय है कि खड़गे आज भारत जोड़ो न्याय यात्रा को संबोधित करने बिहार के पूर्णिया में जाने वाले थे लेकिन खराब मौसम के कारण अपना कार्यक्रम स्थगित कर दिया और बिहार के लोगों के लिए वीडियो संदेश जारी किया। इस संदेश में खड़गे ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की जमकर आलोचना की।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 January 2024

new delhi, Earthquake shakes ,Leh-Ladakh

नई दिल्ली/बिश्केक। भारत के लेह-लद्दाख से लेकर सात समंदर पार किर्गिस्तान में आज सुबह भूकंप के झटके महसूस किए गए। यह जानकारी भारत के राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र और जर्मन रिसर्च सेंटर फॉर जियो साइंसेज ने दी।   राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र के अनुसार सुबह 05:39 बजे लेह और लद्दाख में आए भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 3.4 दर्ज की गई है। फिलहाल कहीं से अभी तक नुकसान की सूचना नहीं है। उधर, जर्मन रिसर्च सेंटर फॉर जियो साइंसेज के अनुसार किर्गिस्तान-झिंजियांग सीमा क्षेत्र में मंगलवार भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 6 मापी गई। भूकंप के कारण जानमाल की कोई क्षति हुई या नहीं, इसकी जानकारी अभी नहीं मिल पाई है। भूकंप 10 किलोमीटर की गहराई पर था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 January 2024

new delhi, Naval commandos ,rescue Pakistani ship

नई दिल्ली। समुद्री क्षेत्र में सुरक्षा प्रदान करने के लिए भारतीय नौसेना के युद्धपोत हिंद महासागर के चारों ओर तैनात हैं। भारतीय नौसेना ने 36 घंटे के भीतर दक्षिणी अरब सागर में दो समुद्री डकैतियों को नाकाम किया है। ईरानी जहाज एफवी इमान को छुड़ाने के बाद भारत के नौसेना कमांडो ने पाकिस्तानी जहाज अल नईमी को समुद्री डाकुओं के चंगुल से मुक्त कराया है। इन दोनों ऑपरेशन में व्यापारिक जहाज़ों को छुड़ाने के साथ ही चालक दल के 36 सदस्यों को सुरक्षित बचाया है, जिसमें 17 ईरानी और 19 पाकिस्तानी नागरिक हैं।   अरब सागर में कोच्चि से 700 समुद्री मील दूर पश्चिम में सोमालियाई समुद्री डाकुओं ने 28 जनवरी को मछली पकड़ने वाले ईरानी जहाज एमवी इमान का अपहरण कर लिया था। जहाज पर सवार 17 क्रू सदस्यों और अपहृत मछुआरों को बचाने के लिए भारतीय नौसेना ने अपना युद्धपोत आईएनएस सुमित्रा को भेजा। युद्धपोत ने अपहृत इस जहाज को बचाने के लिए तत्काल ऑपरेशन शुरू किया। भारत ने मछली पकड़ने वाले जहाज इमान को सुरक्षित बचाकर सोमालियाई लुटेरों को निहत्था करके सोमालिया की ओर खदेड़ दिया। युद्धपोत पर मौजूद एएलएच ध्रुव हेलीकॉप्टरों ने अपहृत जहाज को चारों ओर से घेर लिया था, ताकि उस पर मौजूद समुद्री डाकुओं को चेतावनी दी जा सके। ईरानी जहाज को बचाने के बाद भारतीय युद्धपोत आईएनएस सुमित्रा इलाके से बाहर निकल गया।   भारतीय युद्धपोत यह ऑपरेशन पूरा करने के बाद सोमालिया के पूर्वी तट पर ही था, तभी उसे 29 जनवरी को एक और समुद्री लुटेरों की हरकत का पता चला। कोच्चि से लगभग 850 नॉटिकल मील पश्चिम में दक्षिणी अरब सागर में मिशन तैनात भारतीय नौसेना के युद्धपोत आईएनएस सुमित्रा को मछली पकड़ने वाले पाकिस्तानी जहाज अल नईमी और उसके चालक दल के 19 पाकिस्तानी नागरिकों को बंधक बनाए जाने की सूचना मिली। इस पर उसे पाकिस्तानी जहाज को समुद्री लुटेरों से बचाने की कार्रवाई में लगाया गया। युद्धपोत सुमित्रा ने 29 जनवरी को अपने हेलीकॉप्टर की मदद से अपहृत जहाज को घेरकर पाकिस्तानी चालक दल और जहाज की सुरक्षित रिहाई के लिए 11 समुद्री लुटेरों को भागने के लिए मजबूर कर दिया।   पाकिस्तानी नाव के चालक दल को सुरक्षित बचाने के लिए भारतीय नौसेना के समुद्री कमांडो ने ऑपरेशन में हिस्सा लिया। पिछले 36 घंटों में भारतीय नौसेना का यह दूसरा सफल समुद्री डकैती रोधी अभियान था। दूसरे सफल एंटी पाइरेसी मिशन को अंजाम देने वाले भारतीय नौसेना के स्वदेशी अपतटीय गश्ती जहाज आईएनएस सुमित्रा को सोमालिया के पूर्व और अदन की खाड़ी में समुद्री डकैती रोधी और समुद्री सुरक्षा अभियानों के लिए तैनात किया गया था। भारतीय नौसेना ने समुद्र में सभी नाविकों और जहाजों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए सभी समुद्री खतरों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए क्षेत्र में एक बार फिर अपनी प्रतिबद्धता साबित की है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 January 2024

new delhi, All-party meeting, Suspended MP

नई दिल्ली। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में मंगलवार को सर्वदलीय बैठक हुई। बैठक में पार्टियों के फ्लोर नेताओं ने भागीदारी की। इसमें सरकार ने आगामी सत्र के एजेंडे से नेताओं को अवगत कराया और सदन के सुचारू संचालन में उनका सहयोग मांगा। केन्द्रीय संसदीय कार्यमंत्री प्रह्लाद जोशी ने बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत में बताया कि पिछले शीतकालीन सत्र में निलंबित सभी सदस्यों का निलंबन वापस लिया जाएगा। इस संबंध में सरकार की मंशा से लोकसभा अध्यक्ष और राज्यसभा के सभापति को अवगत करा दिया गया है। वे आगे इस पर कोई फैसला लेंगे। उन्होंने कहा कि ज्यादातर सांसदों का निलंबन पिछले सत्र तक ही था और उन्होंने राज्यसभा सभापति एवं लोकसभा अध्यक्ष से अनुरोध किया है कि जिन सांसदों का विषय विशेषाधिकार समिति को भेजा गया था, वे उनसे चर्चा कर निलंबन वापस ले लें। दोनों ओर से इस पर सहमति भी प्राप्त हुई है। जोशी ने कहा कि लोकसभा अध्यक्ष के समक्ष सभी दलों ने सदन की मर्यादा को लेकर कुछ निर्णय लिये थे। उनका पालन नहीं किए जाने के कारण निलंबन हुआ था। अब सभी से उन्होंने अनुरोध किया गया है कि इसे दोबारा न दोहराया जाए और सभी सदस्य संसदीय मर्यादाओं का पालन करें और सदन को सुचारू रूप से चलाने में सहयोग करें। इस दौरान एक प्रश्न के उत्तर में केन्द्रीय मंत्री ने विपक्षी आईएनडीआई गठबंधन को ब्रेन डेड बताया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का स्वभाव ही है आपस में लड़ना। हमने पहले ही कहा था कि यह गठबंधन अस्वाभाविक है। अस्वाभाविक चीजों की जल्द ही मृत्यु हो जाती है। ऐसे में इंडी एलायंस अब ब्रेन डेड है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 January 2024

ranchi, Hemant Soren, Chief Minister

रांची। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को लेकर सारी अटकलों पर विराम लग गया है। मुख्यमंत्री रांची में ही हैं। वे शिबू सोरेन के आवास से अपने आवास पहुंचे हैं। उन्होंने हाथ हिलाकर पत्रकारों का अभिनंदन भई किया। आवास में अंदर जाने से पहले उनके चेहरे पर खुशी का भाव था। वे कांके रोड स्थित मुख्यमंत्री आवास में सत्ताधारी सभी मंत्रियों और विधायकों के साथ बैठक कर रहे हैं।   बैठक में 31 जनवरी को ईडी की पूछताछ के दौरान हेमंत सोरेन की गिरफ्तारी की संभावना पर गठबंधन की आगे की रणनीति पर मंथन होगा। मुख्यमंत्री के आने से पूर्व ही तकरीबन सारे विधायक मुख्यमंत्री हाउस में जुट गए थे। बैठक में ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम के अलावा बादल पत्रलेख, हफीजुल हसन, जोबा मांझी, बेबी देवी, बन्ना गुप्ता, चंपई सोरेन सहित अन्य मौजूद हैं। अब कहा जा रहा है कि बैठक के बाद सीएम कुछ मंत्रियों और विधायकों संग आज ही राजभवन भी जाएं और राज्यपाल से मिलकर ताजा हालात की जानकारी दें।   इधर, मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के दिल्ली स्थित आवास से ईडी ने 35 लाख रुपये बरामद किये हैं। यह रकम कमरे में रखे एक लॉकर से बरामद हुई है। ईडी की एक टीम जमीन फर्जीवाड़े मामले में मनी लॉन्ड्रिंग जांच के संबंध में पूछताछ करने के लिए बीते सोमवार को मुख्यमंत्री के दिल्ली स्थित आवास पहुंची थी। लगभग 13 घंटे से अधिक समय तक वहां डेरा डाले रही। इस दौरान ईडी की टीम ने परिसर की तलाशी ली। ईडी को हेमंत सोरेन की एक बीएमडब्ल्यू कार, नकदी और कई दस्तावेज मिले हैं। बरामद गाड़ी हरियाणा नम्बर वाली बतायी जा रही है।   उल्लेखनीय है कि ईडी ने जमीन फर्जीवाड़े के मामले में 20 जनवरी को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से रांची में उनके आवास पर पूछताछ की थी। इसके बाद नया समन जारी करते हुए यह बताने को कहा था कि वह पूछताछ के लिए 29 जनवरी या 31 जनवरी में से किस दिन आएंगे। समन के जवाब में मुख्यमंत्री सचिवालय से ईडी को पत्र भेजा गया लेकिन पूछताछ के लिए दिन या तारीख नहीं बतायी थी।   सोरेन ने ईडी को भेजे ईमेल में उस पर राज्य सरकार के कामकाज में बाधा डालने के लिए ‘राजनीतिक एजेंडे से प्रेरित’ होने का आरोप लगाया और दावा किया कि 31 जनवरी को या उससे पहले उनका बयान दोबारा दर्ज कराने की ईडी की जिद से दुर्भावना झलक रही है। हालांकि, बाद में 31 जनवरी को आवास पर बयान दर्ज कराने के लिए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने स्वीकृति दी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 January 2024

new delhi,  Congress

नई दिल्ली। नीतीश कुमार की दोबारा एनडीए में वापसी पर प्रतिक्रिया देते हुए केन्द्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि नीतीश कुमार शुरू से एनडीए के सहयोगी थे। जब -जब उन्होंने आईएनडीआई गठबंधन के साथ जाने का प्रयास किया, तब -तब बिहार में जंगल राज की वापसी हुई। एक बार फिर जब नीतीश कुमार की एनडीए में वापसी हुई है तब हम यह सुनिश्चित करेंगे कि बिहार में सुशासन हो, विकास हो। इस गठबंधन से बिहार के विकास को बल मिलेगा और बिहारवासियों की आशाओं और आकांक्षाओं की पूर्ति होगी।   अनुराग ठाकुर ने आगे कहा, "कांग्रेस अपने सहयोगी दलों के साथ ही न्याय करने में असमर्थ है। इनकी मोहब्बत की दुकान में सिर्फ नफरत नजर आती है। आज एक-एक करके इनके साथी इनको छोड़ रहे हैं। कांग्रेस के बड़े नेता जैसे कपिल सिब्बल, गुलाम नबी आजाद, मिलिंद देवड़ा और कई बड़े नेता जो केंद्र और राज्य में मंत्री रहे, उन्होंने आज कांग्रेस से किनारा किया है। आज कांग्रेस के सहयोगी दलों को भी लगता है कि अगर कांग्रेस के साथ रहे तो उनका खुद का वोट बैंक खिसक जाएगा। चाहे वह ममता बनर्जी हों या डीएमके या फिर महाराष्ट्र, सभी लोग इनसे किनारा कर रहे हैं। बंगाल में तो ममता बनर्जी ने राहुल गांधी से मिलने से ही मना कर दिया। तो मेरा यह प्रश्न है कि क्या गठबंधन है भी या नहीं?"

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 January 2024

new delhi, Delhi

नई दिल्ली। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के अनुसार सोमवार को दिल्ली का औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 356 दर्ज किया गया। मौसम विभाग के अनुसार दिल्ली का औसत एक्यूआई मंगलवार को 'गंभीर' श्रेणी में जाने की संभावना है।   प्रदूषण के स्तर को देखते हुए सोमवार को वायु गुणवत्ता प्रबंधन आयोग (सीएक्यूएम) की ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान (जीआरएपी) की चरण तीन को लागू करने की समीक्षा के लिए उप-समिति ने आपातकालीन बैठक बुलाई। उप-समिति ने वर्तमान वायु गुणवत्ता परिदृश्य और मौसम संबंधी स्थितियों के पूर्वानुमान के साथ-साथ मौसम विभाग एवं भारतीय उष्णदेशीय मौसम विज्ञान संस्थान (आईआईटीएम) द्वारा उपलब्ध कराए गए वायु गुणवत्ता सूचकांक की समीक्षा की। उप-समिति ने नोट किया कि मौसम विभाग द्वारा मंगलवार के लिए अनुमानित दिल्ली के औसत एक्यूआई में उछाल के बाद बारिश की संभावना के साथ तेज हवाओं सहित मौसम संबंधी स्थितियों में सुधार के कारण 'बहुत खराब' श्रेणी में लौटने की संभावना है। आने वाले दिनों के लिए दिल्ली का औसत एक्यूआई 'खराब' या 'बहुत खराब' श्रेणी में रहने का अनुमान है। इसलिए, समग्र वायु गुणवत्ता परिदृश्य और प्रासंगिक पहलुओं की समीक्षा करने के बाद, उप-समिति ने ग्रैप चरण तीन को लागू नहीं करने का निर्णय लिया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 January 2024

new delhi,  government called  all-party meeting

नई दिल्ली। केन्द्र सरकार ने बजट सत्र से पूर्व मंगलवार को संसद में विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं की बैठक बुलाई है। संसद को सुचारू रूप से चलाने और सरकारी एजेंडे से विपक्ष के नेताओं को अवगत कराने के लिए हर सत्र से पूर्व सरकार इस तरह की बैठक बुलाती है। वर्तमान सत्र 17वीं लोकसभा का अंतिम और बेहद छोटा सत्र है। इसमें वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 2024 के आम चुनावों से पूर्व अंतरिम बजट रखेंगी। सत्र 31 जनवरी से शुरू होकर 9 फरवरी तक चलेगा। नई सरकार 18वीं लोकसभा में आगे पूर्ण बजट पेश करेगी। इस सत्र की शुरुआत राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के संबोधन से होगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 January 2024

new delhi,  Mathura Krishna Janmabhoomi, Shahi Idgah continues

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने मथुरा कृष्ण जन्मभूमि-शाही ईदगाह मस्जिद विवाद मामले की सुनवाई टाल दी है। मामले की अगली सुनवाई अप्रैल में होगी। फिलहाल विवादित शाही ईदगाह के सर्वे पर रोक जारी रहेगी। सुप्रीम कोर्ट ने 16 जनवरी को इलाहाबाद हाई कोर्ट के कोर्ट कमिश्नर की नियुक्ति के फैसले पर रोक लगा दी थी। जस्टिस संजीव खन्ना की अध्यक्षता वाली बेंच ने कहा था कि हाई कोर्ट ने अस्पष्ट अर्जी पर आदेश दिया, जिसमें कई सारी मांगे की गई थीं। सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि इलाहाबाद हाई कोर्ट में सुनवाई जारी रहेगी लेकिन कोर्ट कमिश्नर की नियुक्ति पर अंतरिम रोक बरकरार रहेगी। कोर्ट ने हिन्दू पक्षकार पर सवाल उठाते हुए कहा कि आपकी अर्जी बहुत अस्पष्ट है। आपको स्पष्ट बताना होगा कि आप क्या चाहते हैं। मुस्लिम पक्ष ने शाही ईदगाह के सर्वे के लिए कोर्ट कमिश्नर की नियुक्ति पर रोक लगाने की मांग की थी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 January 2024

kolkata, Rahul Gandhi, justice journey

कोलकाता। कांग्रेस की भारत जोड़ो न्याय यात्रा सोमवार को बिहार में प्रवेश कर गई। उत्तर बंगाल के दार्जिलिंग में सोमवार को यात्रा शुरू हुई और यहीं से बिहार पश्चिम बंगाल की सीमा से किशनगंज में यात्रा का प्रवेश हुआ है। राहुल गांधी की यह यात्रा 31 जनवरी को किशनगंज के रास्ते होते हुए एक बार फिर पश्चिम बंगाल के मालदा में प्रवेश करेगी और मुर्शिदाबाद से होकर गुजरेगी। गत 25 जनवरी को बंगाल में प्रवेश के साथ राहुल गांधी ने भारत जोड़ो न्याय यात्रा को अल्प विराम दिया था क्योंकि अगले दिन 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस था। रविवार को एक बार फिर वह बंगाल पहुंचे थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 January 2024

new delhi, Prime Minister Modi ,Mann Ki Baat

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम 'मन की बात' में पद्म और अर्जुन पुरस्कार विजेताओं की उपलब्धियों को साझा किया। उन्होंने कहा कि इन विजेताओं की जीवन यात्रा हम सबके लिए प्रेरणास्रोत है।   'मन की बात' के 109वें एपीसोड में प्रधानमंत्री मोदी ने 75वें गणतंत्र दिवस समारोह और उसमें नारी शक्ति के प्रदर्शन का विशेष रूप से उल्लेख किया। उन्होंने अर्जुन पुरस्कार पाने वाली बेटियों की उपलब्धियों की सराहना की। प्रधानमंत्री ने कहा कि 13 महिला एथलीट को इस बार पुरस्कृत किया गया है। बदलते भारत में देश की बेटियां हर क्षेत्र में कमाल कर रही हैं।   प्रधानमंत्री ने हर बार की तरह जनता के साथ कई महत्वपूर्ण जानकारियां साझा कीं। उन्होंने कहा कि आयुष मंत्रालय ने विश्व स्वास्थ्य संगठन के साथ मिलकर आयुर्वेद, यूनानी और सिद्ध चिकित्सा से जुड़े डेटा और शब्दावली का वर्गीकरण किया है। इससे किसी अन्य डॉक्टर के पास जाने पर व्यक्ति के रोग और इलाज संबंधित सारी जानकारी पर्ची के माध्यम से पता चल जाएगी।   उन्होंने प्राकृतिक चिकित्सा को पुनर्जीवित करने वाली अरुणाचल प्रदेश की यानुंग और आयुष से लोगों का इलाज करने वाले छत्तीसगढ़ के हेमचंद मांझी के बारे में बताया। दोनों को ही इस बार पद्म सम्मान दिया गया है। उन्होंने कहा कि पिछले दशकों में पद्म पुरस्कार का तंत्र पूरी तरह बदल गया है। लोगों को खुद को नामांकित करने का अवसर मिल रहा है। इससे नामांकन में 28 गुना की वृद्धि हुई है। साथ ही समाज में जमीनी स्तर पर बड़े बदलाव लाने वालों को सम्मान मिला है।   प्रधानमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ में रेडियो लोगों की जिंदगी में बदलाव ला रहा है। हमर हाथी हमर गोठ नाम का कार्यक्रम छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर, रायपुर, बिलासपुर और रायगढ़ में शाम को प्रसारित किया जाता है। इसमें लोगों को हाथी के झुंडों की आवाजाही की जानकारी मिलती है। इससे जान-माल का नुकसान बचता है। प्रधानमंत्री मोदी ने मतदान की उम्र तक पहुंचने वाले युवाओं से खुद को मतदाता सूची में रजिस्टर्ड कराने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि आज देश में 96 करोड़ मतदाता हैं। हर मतदाता को मताधिकार के उपयोग का अधिकार मिले, इसके लिए चुनाव आयोग दूरदराज के इलाकों में भी पोलिंग बूथ बनाता है। नेशनन वोटर डे और वोटर हेल्पलाइन ऐप के माध्यम से युवा खुद को मतदाता सूची में जोड़ें।   इस दौरान प्रधानमंत्री ने पंजाब केसरी स्वतंत्रता सैनानी लाला लाजपत राय, फील्ड मार्शल केएम करियप्पा को श्रद्धासुमन अर्पित किए। कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ने द्वीव में हुई बीच खेल प्रतियोगिता की जानकारी दी और कहा कि भारत लगातार खेल के क्षेत्र में नई उंचाईयां छू रहा है। खुशी है कि खिलाड़ियों के लिए आज सामर्थ्य दिखाने का मौका मिल रहा है। खेलों के प्रति खिलाड़ियों का जज्बा निरंतर बढ़ रहा है और यही जज्बा किसी देश को खेल की दुनिया में सरताज बनाता है। आखिर में प्रधानमंत्री मोदी ने सोमवार को छात्रों के साथ होने वाले संवाद कार्यक्रम परीक्षा पर चर्चा से लोगों को जुड़ने का आग्रह किया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कार्यक्रम में संविधान की प्रथम प्रति के तीसरे अध्याय में भगवान श्रीराम का चित्र होने जिक्र करते हुए कहा कि उनका शासन हमारे संविधान निर्माताओं के लिए प्रेरणा स्रोत रहा है। 'मन की बात' के वर्ष के प्रथम एपीसोड में प्रधानमंत्री ने कहा कि देश ने दो दिन पहले 75वां गणतंत्र दिवस धूमधाम से मनाया। इस साल सुप्रीम कोर्ट भी अपने 75 वर्ष पूरे करने वाला है। हमारे लोकतंत्र के यह पर्व भारत को सशक्त बनाते हैं। उन्होंने कहा कि प्रभु श्रीराम का शासन हमारे संविधान निर्माताओं के लिए प्रेरणा स्रोत रहा है। 22 जनवरी को देशवासियों ने रामज्योति जलाई और दिवाली मनाई। लोगों ने इस दौरान स्वच्छता अभियान में भी हिस्सा लिया। सामूहिकता की यह भावना रुकनी नहीं चाहिए। यही भावना हमारे देश को सफलता की नई ऊंचाईयों पर ले जाएगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 January 2024

patna,  Nitish Kumar resigns,  new government

पटना। बिहार के मुख्यमंत्री और जनता दल (यू) के नेता नीतीश कुमार ने आज सुबह करीब 11:15 बजे राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंप दिया। नीतीश कुमार ने भाजपा का समर्थन पत्र सौंपकर नई सरकार बनाने का दावा भी पेश किया। आज शाम नई सरकार के शपथ लेने की संभावना है। राजभवन जाने से पहले नीतीश कुमार ने मुख्यमंत्री आवास पर पार्टी सांसदों और विधायकों के साथ बैठक की। बैठक में नीतीश कुमार ने अपने फैसले की जानकारी दी। ऐसे संकेत मिले हैं कि जदयू खेमे से तीन और भाजपा के तीन विधायक मंत्री पद की शपथ लेंगे। समारोह में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा भी शामिल हो सकते हैं। राजभवन से बाहर आने पर नीतीश कुमार ने पत्रकारों को अपने फैसले की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि आज हमने इस्तीफा दे दिया है। राज्यपाल से मौजूदा सरकार को समाप्त करने को कहा है। नीतीश कुमार ने कहा है कि चारों तरफ से राय आ रही थी। इसी को हमने सुन लिया। अब नये गठबंधन में शामिल होंगे। आज हम लोग पुराने गठबंधन से अलग हो गए हैं। जितना काम हम कर रहे थे, वो कुछ काम ही नहीं कर रहे थे। लोगों को तकलीफ थी, हमने बोलना छोड़ दिया। नीतीश कुमार ने 537 दिन बाद आज 28 जनवरी को एक बार फिर राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंपा। उन्होंने पिछली बार नौ अगस्त 2022 को राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंपा था। इसके बाद राजद-कांग्रेस गठबंधन के साथ मिलकर महागठबंधन सरकार बनाई थी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 January 2024

bareli, UP. Burnt bodies

बरेली। उत्तर प्रदेश के बरेली जिले में स्थित एक घर के कमरे में दंपति समेत पांच लोगों के शव रविवार को संदिग्ध हालात में मिले हैं। सभी शव जले हुए थे। हैरत की बात यह है कि कमरे के बाहर ताला लगा हुआ था। परिवार के लोगों ने हत्या की आशंका जताई है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संबंधित अधिकारियों को इस घटना की निष्पक्ष जांच के आदेश दिए हैं। आईजी डॉ. राकेश सिंह और एसएसपी घुले सुशील चंद्रभान ने मौके पर पहुंच कर जांच पड़ताल की। एसएसपी चंद्रभान ने पत्रकारों को बताया कि हलवाई का काम करने वाला अजय कुमार गुप्ता उर्फ टिंकल (35) किराये के मकान में पत्नी अनिता (32), बेटे दिव्यांश (09) एवं दक्ष (03) और बेटी दिव्यंका (06) के साथ रहते थे। स्थानीय लोगों ने रविवार सुबह देखा कि अजय के दरवाजे पर ताला लगा हुआ है और कमरे से धुआं निकल रहा है। इस पर उन्होंने फौरन पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने दरवाजा तोड़कर देखा तो कमरे में पूरा धुआं भरा हुआ था और पांच शव जले पड़े थे। इस मामले की जांच शुरू कर दी गई है। इधर घटना की जानकारी पर पहुंचे परिवार के लोगों ने हत्या की आशंका जाहिर की है। एसएसपी चंद्रभान ने बताया कि फिलहाल पुलिस घटनास्थल का जायजा लेकर आग लगने के कारणों का पता लगा रही है। सभी शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 January 2024

mumbai, Chief Minister, ruling party itself

मुंबई। मराठा आरक्षण को लेकर मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के फैसले पर सत्तापक्ष में ही नाराजगी उभरने लगी है। शिंदे सरकार में कैबिनेट मंत्री छगन भुजबल ने इस फैसले पर नाराजगी जताते हुए रविवार को कहा कि ओबीसी को आरक्षण से बाहर करने का प्रयास किया जा रहा है। केंद्रीय मंत्री नारायण राणे ने भी मुख्यमंत्री शिंदे के फैसले का पुरजोर विरोध किया है। उन्होंने इस फैसले को ऐतिहासिक परंपराओं को तोडऩे वाला और ओबीसी के अधिकारों पर अतिक्रमण करने वाला बताया है। नारायण राणे ने ट्विट कर कहा कि सोमवार को वे इस बारे में विस्तृत जानकारी देंगे। इसी तरह भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की राष्ट्रीय सचिव पंकजा गोपीनाथ मुंडे ने कहा कि अब एक मराठा लाख मराठा नहीं बल्कि एक ओबीसी लाख ओबीसी का नारा मनोज जारांगे को लगाना चाहिए। छगन भुजबल ने रविवार को पत्रकारों को बताया कि राज्य सरकार की ओर से हर जगह एक तरफा कार्रवाई की जा रही है। हम कुरेटिव याचिका दायर करने का समर्थन करते हैं, लेकिन क्या मराठा समुदाय को कुनबी सर्टिफिकेट देना जरूरी है? ऐसा सवाल भुजबल ने उठाया है। भुजबल ने यह भी कहा कि मुख्यमंत्री बात करते हैं कि ओबीसी समाज के साथ अन्याय नहीं किया जाएगा, लेकिन ओबीसी समाज को आरक्षण से बाहर निकालने का काम मुख्यमंत्री शिंदे सुनियोजित तरीके से कर रहे हैं। अब तो शिक्षा और नौकरी में ओबीसी की जगह मराठा समाज को लोग नजर आएंगे और कहीं इक्का दुक्का जो ओबीसी जनप्रतिनिधि नजर आते थे, वे भी एक-दो लोग भी नहीं आ सकेंगे। भुजबल ने यह भी कहा कि सभी मराठा समुदाय को पिछले दरवाजे से कुनबी सर्टिफिकेट देने का काम चल रहा है। कल की घटना के बाद कल से ही मुझे पिछड़े वर्ग, दलित और अन्य लोगों के संदेश आ रहे हैं। आगे क्या करना है? वे पूछ रहे हैं। मंत्री छगन भुजबल ने कहा है कि नागरिकों में घबराहट है कि हमारा आरक्षण खत्म हो गया है। मराठा आरक्षण के मुद्दे पर ओबीसी नेताओं ने सरकार के फैसले का विरोध किया है। इसके लिए रविवार को छगन भुजबल के आवास पर एक शाम बैठक का भी आयोजन किया गया है । इस बैठक में ओबीसी नेता अपनी आगे की रणनीति तय करने वाले हैं। इससे पहले छगन भुजबल ने मीडिया से बातचीत के दौरान यह बात कही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 January 2024

jalpaigudi, Situation of tension,Bharat Jodo Nyay Yatra

जलपाईगुड़ी। कांग्रेस सांसद राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा दो दिन के ब्रेक के बाद रविवार से फिर से शुरू हुई। उनकी यात्रा को लेकर पश्चिम बंगाल के जलपाईगुड़ी जिले में कुछ देर के लिए तनाव के हालात पैदा हो गए। कांग्रेस ने पुलिस पर राहुल की यात्रा बस रोकने का आरोप लगाया है। हालांकि पुलिस के साथ नोकझोंक के बीच राहुल का काफिला शहर में प्रवेश कर गया। दरअसल, रविवार को राज्य पुलिस उपनिरीक्षक पद की भर्ती परीक्षा है। परीक्षा 12 बजे से शुरू हुई। इसके चलते सुबह से ही विभिन्न इलाकों में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। जलपाईगुड़ी शहर में कई परीक्षा केंद्र हैं। इस बीच राहुल बागडोगरा से सीधे सड़क मार्ग से दोपहर को जलपाईगुड़ी पहुंचे। उनका काफिला जैसे ही पहाड़पुर मोड़ पहुंचा, पुलिस ने रोक दिया। इस दौरान तनाव के हालात पैदा हो गए। कांग्रेस कार्यकर्ताओं की पुलिस से नोकझोंक भी हुई। कांग्रेस कार्यकर्ताओं का आरोप है कि पुलिस ने योजना बनाकर उनके काफिले को रोका है। पुलिस ने कहा कि राहुल की बस को शहर में हो रही परीक्षा के कारण रोका गया। उल्लेखनीय है कि शनिवार को धुपगुड़ी के कई इलाकों में यात्रा से जुड़े राहुल के कई पोस्टर फटे हुए पाए गए थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 January 2024

new delhi, Angered ,Governor sat on strike

नई दिल्ली। केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान शनिवार को एसएफआई कार्यकर्ताओं की ओर से काले झंडे दिखाने और बाद में उनकी कार के करीब आने के बाद कोल्लम के नीलामेल में सड़क किनारे विरोध में धरने पर बैठ गए। इस मामले में नाराजगी जताते हुए राज्यपाल ने अपनी कार रुकवाई और पुलिस से पूछताछ की। उसके बाद पास की चाय की दुकान से एक कुर्सी निकाली और सड़क के किनारे बैठ गए। उन्होंने कहा, “मैं यहां से नहीं जाऊंगा। पुलिस मुझे सुरक्षा दे रही है।” राज्यपाल ने केंद्रीय गृह सचिव से मामले की शिकायत की है। पुलिस अधिकारी भी मौके पर पहुंचे और उन्हें समझाने की कोशिश की। राज्यपाल का कहना है कि एक विफल पुलिस व्यवस्था के कारण इस तरह का संकट पैदा हुआ। राज्यपाल ने आरोप लगाया, “मुझे काले झंडे लहराए जाने से कोई आपत्ति नहीं है लेकिन आंदोलनकारी मेरी कार पर हमला कर रहे हैं।” उन्होंने पुलिस पर ड्यूटी में गंभीर लापरवाही का आरोप लगाया। एसएफआई कार्यकर्ता राज्यपाल की ओर से राज्य के विश्वविद्यालयों में भाजपा समर्थक कार्यकर्ताओं को नामित करने के आरोप लगाते हुए उनका विरोध कर रहे थे। राज्यपाल एक कार्यक्रम में भाग लेने के लिए नीलामेल स्थित एक कॉलेज जा रहे थे। इस दौरान एसएफआई कार्यकर्ताओं ने उन्हें काले झंडे दिखाए और कथित तौर पर कार पर हमला किया। इस पर राज्यपाल ने कार रुकवा दी। वे कार से बाहर आये और एसएफआई कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार नहीं करने के लिए पुलिस पर नाराज हुए। इस पर पुलिस ने राज्यपाल को सूचित किया कि एसएफआई के 12 कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया गया है। यह सुनने के बाद राज्यपाल ने कहा कि और भी लोग हैं। उन्होंने कहा कि जब तक सभी की गिरफ्तारी नहीं हो जाती, वे वहां से नहीं जायेंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  27 January 2024

chandigarh, Horrific road accident,five youth burnt alive

चंडीगढ़। पंजाब के होशियारपुर में दसूहा के पास भीषण सड़क हादसे में पांच युवकों की जिंदा जलने से मौत हो गई। ये सभी लोग कार में सवार थे। घटना शुक्रवार देर रात की है। जालंधर-पठानकोट हाईवे पर दसूहा के पास कार व ट्रक की टक्कर में जोरदार धमाके के बाद कार में आग लग गई। जिससे यह घटना हुई है। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार जब वह गांव उच्ची बस्सी के पास पहुंचा तो देखा कि जालंधर नंबर की एक कार से आग की लपटें निकल रही थी। उनके वहां पहुंचने से करीब एक दो मिनट पहले ही हादसा हुआ था। मौके पर जमा हुए ग्रामीणों ने चार लोगों को बाहर निकाला। जिसमें दो लोगों की मौत हो चुकी थी, दो की सांस चल रही थी। एक अन्य खुद ही किसी तरह बाहर आ गया था। जिसे सबसे पहले अस्पताल भेजा गया। उक्त युवक की अस्पताल पहुंचते ही मौत हो गई। इसके बाद मामले की जानकारी पुलिस को दी गई। कुछ देर बाद जांच के लिए पुलिस और एम्बुलेंस पहुंच गई। मगर जब तक दो अन्य की भी मौत हो गई थी। जिस जगह पर कार जल रही थी उससे करीब 500 मीटर दूर एक ट्रक झाड़ियों में पलटा हुआ था। पुलिस के अनुसार ट्रक का चालक उसी में फंसा हुआ था। उसे भी किसी तरह बाहर निकाल कर दसूहा के सिविल अस्पताल में भेजा गया। आशंका जताई जा रही है कि ट्रक चालक कार को टक्कर मारने के बाद वहां से भागा होगा, मगर आगे जाकर वह भी हादसे का शिकार हो गया। घटना की सूचना मिलते ही दमकल विभाग की टीमें भी मौके पर पहुंची। जिन्होंने करीब आधे घंटे की मशक्कत के बाद कार में लगी आग पर काबू पाया।   पुलिस के अनुसार सभी मृतक जालंधर के रहने वाले थे। इनकी शिनाख्त ऋषभ मिन्हास, इंदर कौंडल, राजू और अभि निवासी भार्गव कैंप और अंकित कुमार निवासी घास मंडी के रूप में हुई है। ये सभी कार में जालंधर से पठानकोट जा रहे थे। पुलिस ने इनके शवों और क्षतिग्रस्त वाहनों को अपने कब्जे में ले लिया है। मृतकों के परिजनों को सूचित कर दिया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  27 January 2024

new delhi,  central armed forces ,Prime Minister Modi

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को कहा कि पिछले 10 वर्षों में केंद्रीय सशस्त्र बलों में महिलाओं की संख्या दोगुनी से अधिक हो गई है। उन्होंने कहा कि दुनिया आज भारत की बेटियों को हर क्षेत्र में अपनी योग्यता साबित करते हुए देख रही है।   प्रधानमंत्री ने दिल्ली के करियप्पा परेड ग्राउंड में वार्षिक एनसीसी पीएम रैली को संबोधित किया। मोदी ने इससे पहले यहां एक सांस्कृतिक कार्यक्रम देखा और सर्वश्रेष्ठ कैडेट को पुरस्कार प्रदान किया। उन्होंने कहा कि रैली 'एक दुनिया, एक परिवार, एक भविष्य' की भावना को मजबूत कर रही है। मोदी ने कहा कि 2014 में इस रैली में 10 देशों के कैडेट थे, आज यह संख्या 24 हो गई है। यह देखते हुए कि ऐतिहासिक 75वां गणतंत्र दिवस नारी शक्ति को समर्पित था, मोदी ने कहा कि देश ने जीवन के हर क्षेत्र में भारत की बेटियों द्वारा की गई प्रगति को प्रदर्शित किया है।   प्रधानमंत्री ने उस समय को याद करते हुए जब समाज में महिलाओं की भूमिका सांस्कृतिक व्यवस्थाओं और संगठनों तक ही सीमित थी। उन्होंने कहा कि दुनिया आज भारत की बेटियों को हर क्षेत्र में अपनी योग्यता साबित करते हुए देख रही है, चाहे वह भूमि, समुद्र, वायु या अंतरिक्ष हो। उन्होंने गणतंत्र दिवस परेड में भाग लेने वाली महिला प्रतिभागियों के दृढ़ संकल्प पर प्रकाश डाला और कहा कि यह रातोंरात सफलता का परिणाम नहीं है बल्कि पिछले 10 वर्षों के समर्पित प्रयासों का परिणाम है। प्रधानमंत्री ने रानी लक्ष्मी बाई, रानी चेन्नम्मा और रानी वेलु नचियार जैसे बहादुर योद्धाओं का उल्लेख करते हुए कहा, "भारतीय परंपराओं में नारी को हमेशा शक्ति के रूप में माना गया है", जिन्होंने अंग्रेजों को कुचल दिया था। प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले 10 वर्षों में सरकार ने देश में नारी शक्ति की इस ऊर्जा को लगातार मजबूत किया है।   उन्होंने उन क्षेत्रों में महिलाओं के प्रवेश में सभी बाधाओं को दूर करने का उल्लेख किया जो कभी वर्जित या सीमित थे और तीनों रक्षा बलों की अग्रिम पंक्ति को खोलने, रक्षा में महिलाओं के लिए स्थायी कमीशन, और कमांड भूमिकाओं और युद्ध पदों को खोलने का उदाहरण दिया। प्रधानमंत्री ने कहा, “चाहे अग्निवीर हों या लड़ाकू पायलट, महिलाओं की भागीदारी बढ़ रही है।” उन्होंने सैनिक स्कूलों में छात्राओं के लिए प्रवेश खोलने का भी जिक्र किया। मोदी ने बताया कि पिछले 10 वर्षों में केंद्रीय सशस्त्र बलों में महिलाओं की संख्या दोगुनी से अधिक हो गई है, जबकि राज्यों को राज्य पुलिस बल में अधिक महिलाओं की भर्ती के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है।   मोदी ने कहा कि भारत अपना 75वां गणतंत्र दिवस मना रहा है। यह ऐतिहासिक क्षण देश की नारी शक्ति को समर्पित किया गया है। कल कर्तव्य पथ पर हम सभी ने नारी शक्ति की क्षमताओं को देखा। हमने दुनिया को दिखाया कि भारत की नारी शक्ति क्या अद्भुत काम कर रही है और कैसे वे हर क्षेत्र में मील के पत्थर हासिल कर रही हैं। यह पहली बार था कि महिला दलों ने इतनी बड़ी संख्या में हिस्सा लिया। प्रधानमंत्री ने देश के विभिन्न हिस्सों से आए कैडेटों की उपस्थिति को देखते हुए कहा, “एनसीसी कैडेटों के बीच उपस्थित होना एक भारत, श्रेष्ठ भारत के विचार को उजागर करता है।” उन्होंने इस बात पर प्रसन्नता व्यक्त की कि एनसीसी का दायरा लगातार बढ़ रहा है और कहा कि आज का अवसर एक नई शुरुआत का प्रतीक है। उन्होंने सीमावर्ती क्षेत्रों के गांवों के 400 से अधिक सरपंचों और देश भर के स्वयं सहायता समूहों की 100 से अधिक महिलाओं की उपस्थिति का भी उल्लेख किया, जिन्हें सरकार वाइब्रेंट विलेजेज योजना के तहत विकसित कर रही है। उन्होंने कहा कि ये जो हम 'विकसित भारत' बनाने वाले हैं, उसका लाभार्थी मोदी नहीं है। इसके लाभार्थी आप जैसे युवा हैं, इसके लाभार्थी स्कूल-कॉलेज में पढ़ने वाले विद्यार्थी हैं। विकसित भारत और भारत के युवाओं का उत्थान एक साथ ऊपर जाएगा, इसलिए आप सभी को मेहनत करने में एक पल भी गंवाना नहीं चाहिए। भारत की डिजिटल क्रांति के प्रमाण में, प्रधानमंत्री मोदी ने डिजिटल अर्थव्यवस्था की तेजी से वृद्धि और युवाओं पर इसके गहरे प्रभाव पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि, "पिछले 10 वर्षों में, भारत की डिजिटल अर्थव्यवस्था हमारे युवाओं के लिए ताकत का एक नया स्रोत बन गई है।"

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  27 January 2024

mumbai,  OBC community. Fadnavis

मुंबई। महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने शनिवार को मराठा आरक्षण को लेकर कहा कि ओबीसी समाज के साथ अन्याय नहीं होने दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि मनोज जरांगे पाटिल का आंदोलन खत्म हो गया है इसलिए वह बधाई के पात्र हैं। फडणवीस ने यह भी कहा कि आंदोलन के दौरान जहां आगजनी हुई है, हत्या का प्रयास किया गया है, वे मामले वापस नहीं लिए जाएंगे। फडणवीस ने पत्रकारों से कहा कि हम शुरू से कहते रहे हैं कि आरक्षण का मुद्दा कानून और संविधान के दायरे में हल करना होगा। मराठा आरक्षण को लेकर सरकार सकारात्मक थे। इस नई पद्धति से मराठा समाज की एक बड़ी समस्या हल हो जाएगी। इससे कोई अन्याय नहीं होगा जैसा कि ओबीसी भाइयों को डर है। उन्होंने कहा कि सरकार ने ऐसा कोई निर्णय नहीं लिया है जिससे कि ओबीसी वर्ग के साथ अन्याय होगा। यह उन लोगों को प्रमाण पत्र देने का मामला नहीं था जिनके पास कोई रिकॉर्ड या सबूत नहीं था, लेकिन इससे उन लोगों के लिए रास्ता साफ हो गया है जिनके पास रिकॉर्ड हैं और कानूनी अधिकार होने पर उन्हें प्रमाण पत्र प्राप्त करने में कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा था। इसका तरीका सरल बनाया गया है। राज्य में सभी समुदायों को न्याय दिया गया है। फडणवीस ने कहा कि हमारा पहले दिन से रुख था कि हम ओबीसी के साथ अन्याय नहीं होने देंगे। मराठा आरक्षण को लेकर सर्वे जारी रहेगा। इस बीच क्यूरेटिव पिटीशन भी दाखिल की गई है। हमारा प्रयास है कि उसमें सफलता मिले लेकिन अगर उसमें सफलता नहीं मिली तो सर्वे काम आएगा। हमने अंतरावाली साराटी या अन्य जगहों से मराठा प्रदर्शनकारियों के खिलाफ मामले वापस ले लिए हैं लेकिन घर जलाने और सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वालों के अपराध वापस लेने की किसी ने मांग नहीं की और न ही कोई निर्णय लिया गया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  27 January 2024

new delhi, Ayodhya, , path of duty

नई दिल्ली। गणतंत्र दिवस परेड में केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सीएपीएफ) और दिल्ली पुलिस की टुकड़ियों ने भी मार्च किया। प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार पाने वाले 18 बच्चे जब जीपों में सवार होकर कर्तव्य पथ पर गुजरे तो उनका उत्साह देखते ही बन रहा था। परेड के दौरान 16 राज्यों, केंद्रशासित प्रदेश और नौ मंत्रालयों की झांकियों के जरिये सरकार की उपलब्धियों को कर्तव्य पथ पर दिखाया गया। भगवान राम की जन्मस्थली अयोध्या पर केंद्रित उत्तर प्रदेश की झांकी विशेष आकर्षण का केंद्र रही। सीएपीएफ और दिल्ली पुलिस की टुकड़ियां केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सीएपीएफ) और दिल्ली पुलिस की टुकड़ियों का नेतृत्व महिलाओं ने किया। सीमा सुरक्षा बल के मार्चिंग दस्ते का नेतृत्व सहायक कमांडेंट मोनिका लाकड़ा ने किया। केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल दस्ते का नेतृत्व सहायक कमांडेंट तन्मयी मोहंती ने किया। इसी तरह केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की टुकड़ी सहायक कमांडेंट मेघा नायर के नेतृत्व में, भारत-तिब्बत सीमा पुलिस की टुकड़ी सहायक कमांडेंट मोनिया शर्मा के नेतृत्व में, सशस्त्र सीमा बल की टुकड़ी डिप्टी कमांडेंट नैंसी सिंगला के नेतृत्व में और दिल्ली पुलिस के दल का नेतृत्व अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त श्वेता के सुगथन ने किया। सीमा सुरक्षा बल की ऊंट टुकड़ी का नेतृत्व डिप्टी कमांडेंट मनोहर सिंह खींची ने किया। दूसरी बार बीएसएफ की महिलाओं ने अपने सजे हुए ऊंटों के साथ परेड में हिस्सा लिया। एनसीसी दल   पहली बार इस परेड में ऑल-गर्ल ट्राई-सर्विस मार्चिंग दस्ता शामिल हुआ, जिसका नेतृत्व उत्तर प्रदेश निदेशालय की सीनियर अंडर ऑफिसर तनु तेवतिया ने किया। 148 कैडेटों वाली लड़कियों की मार्चिंग टुकड़ी (सेना) का नेतृत्व कर्नाटक और गोवा निदेशालय की सीनियर अंडर ऑफिसर पुन्न्या पोन्नम्मा ने किया। एनसीसी बैंड में भी लड़कियों का ही प्रतिनिधित्व दिखा। बिड़ला बालिका विद्या पीठ पिलानी, राजस्थान और उत्तर-पूर्वी क्षेत्र की लड़कियों के संयुक्त बैंड का नेतृत्व सीनियर अंडर ऑफिसर यशस्विका गौड़ और अंकिता शर्मा ने किया। प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार विजेता बहादुरी, कला एवं संस्कृति, खेल, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, नवाचार और सामाजिक सेवा के क्षेत्र में असाधारण क्षमताओं और उत्कृष्ट उपलब्धि के लिए इस बार यह पुरस्कार 19 बच्चों को दिया गया है, जिसमें आदित्य विजय ब्रम्हणे को यह पुरस्कार मरणोपरांत दिया गया है। इसलिए प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार के विजेता 18 बच्चे जीपों में सवार होकर कर्तव्य पथ पर गुजरे। इसमें अनुष्का पाठक, अरिजीत बनर्जी, अरमान उबरानी, हेतवी कांतिभाई खिमसुरिया, इशफाक हामिद, एमडी हुसैन, पेंड्याला लक्ष्मी प्रिया, सुहानी चौहान, आर्यन सिंह, अवनीश तिवारी, गरिमा, ज्योत्सना अख्तर, सय्याम मजुमदार, आदित्य यादव, चार्वी ए, जेसिका नेयी सरिंग, लिन्थोई चनांबम और आर सूर्य प्रसाद हैं। राज्यों, केंद्र शासित प्रदेशों और मंत्रालयों की झांकियां   परेड के दौरान 16 राज्यों, केंद्र शासित प्रदेश और नौ मंत्रालयों की झांकियां कर्तव्य पथ से गुजरीं। इनमें अरुणाचल प्रदेश, हरियाणा, मणिपुर, मध्य प्रदेश, ओडिशा, छत्तीसगढ़, राजस्थान, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, लद्दाख, तमिलनाडु, गुजरात, मेघालय, झारखंड, उत्तर प्रदेश और तेलंगाना की झांकियां थीं। इसके अलावा गृह मंत्रालय, विदेश मंत्रालय, इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय, बंदरगाह, जहाजरानी और जलमार्ग मंत्रालय, संस्कृति मंत्रालय, भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो), वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान केंद्र, भारत निर्वाचन आयोग और केंद्रीय लोक निर्माण विभाग की भी झांकियां दिखाई दीं। उत्तर प्रदेश की झांकी विशेष आकर्षण का केंद्र रही। झांकी के चारों ओर लगी झालर दीपोत्सव को चित्रित कर रही थी, जो भगवान राम के अयोध्या आगमन के उपल्क्ष्य में राज्य सरकार की ओर से शुरू किया गया प्रकाश उत्सव है। वंदे भारत 3.0 रक्षा मंत्रालय और संस्कृति मंत्रालय ने लगातार तीसरे वर्ष ‘नारी शक्ति की सांस्कृतिक अभिव्यक्ति-संकल्प से सिद्धि’ विषय पर सांस्कृतिक कार्यक्रम ‘वंदे भारतम्’ प्रस्तुत किया। इसमें शामिल लगभग 1,500 महिलाओं ने विविधता में एकता का संदेश देते हुए रंगारंग प्रदर्शन से दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। इस भव्य प्रदर्शन में विभिन्न राज्यों में विशिष्ट रूप से प्रचलित 30 लोकनृत्य शैलियों के साथ-साथ समकालीन शास्त्रीय नृत्य और बॉलीवुड शैलियों का भी प्रदर्शन किया गया। इन कलाकारों में आदिवासी नर्तक, लोक नर्तक और शास्त्रीय नर्तक शामिल रहे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 January 2024

new delhi, Congress , Kharge

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने शुक्रवार को कहा कि उनकी पार्टी संविधान, लोकतंत्र और न्याय की रक्षा के लिए संघर्ष करती रहेगी। उन्होंने आरोप लगाया कि मौजूदा सरकार एक सुनियोजित ढंग से संविधान के आधार स्तंभों हमला कर रही है। खड़गे ने आज बेंगलुरु में पार्टी कार्यालय पर झंडा फहराया। इस दौरान राज्य के मुख्यमंत्री सिद्धरमैया और उपमुख्यमंत्री डीके शिवाकुमार प्रमुख रूप से मौजूद थे। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि ये साल तय करेगा कि हम संविधान, लोकतंत्र और न्याय के मूल्यों को बचा पाएंगे या हम फिर उसी दौर में पहुंच जाएंगे, जहां हर एक व्यक्ति समान नहीं होगा; उनके अधिकार समान नहीं होंगे। खड़गे ने कहा कि न्याय, समानता, बंधुत्व, स्वतंत्रता, भाईचारा, धर्मनिरपेक्षता और समाजवाद भारत के मूलभूत स्तंभ हैं। आज हर भारतीय को संविधान द्वारा प्रदत्त मौलिक और बुनियादी अधिकारों पर धीरे-धीरे अतिक्रमण हो रहा है और उन्हें ख़त्म किया जा रहा है। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि संविधान द्वारा प्रदत्त मौलिक और बुनियादी अधिकारों की रक्षा करना हमारी आजीवन प्रतिबद्धता है। यह साल भारत के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। संविधान द्वारा प्रदत्त मौलिक और बुनियादी अधिकारों की रक्षा करना हमारी आजीवन प्रतिबद्धता है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 January 2024

lucknow,claims and promises,Mayawati

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी(बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने शुक्रवार को 75वें गणतंत्र दिवस पर देश व दुनिया भर में रहने वाले सभी भारतीयों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दी है। बसपा सुप्रीमो मायावती ने एक्स पर अपने संदेश में लिखा है कि देश की प्रगति का सही मापदंड गरीबी, बेरोजगारी, अशिक्षा आदि का उन्मूलन तथा प्रति व्यक्ति आय में वृद्धि है, ना कि सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) का विकास या बड़े-बड़े पूंजीपतियों व धन्नासेठों की पूंजी में इजाफा है। इसके लिए देश दावों एवं वादों के बजाय ठोस प्रगति की राह पर चले तो बेहतर होगा। इस दौरान उन्होंने कहा कि यह वह खास मौका है जब देश के लोकतांत्रिक मान-मर्यादाओं व पवित्र संविधान के आदर्श मानवीय मूल्यों से आमजन को लाभान्वित कराने के प्रति सरकार को आत्म-चिन्तन करना भी जरूरी है। मायावती ने एक्स पर यह भी लिखा है कि भारत का मानवतावादी संविधान देश के समस्त नागरिकों के न्याय व समतामूलक विकास के कल्याणकारी जीवन की गारंटी देता है। लेकिन इस पर पूरी ईमानदारी एवं निष्ठा से अमल नहीं करने का परिणाम है कि यहां के अधिकतर लोग गरीबी, बेरोजगारी, अशिक्षा आदि का त्रस्त जीवन जीने को विवश हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 January 2024

kohima, Landslide in coal mine, 6 workers died

कोहिमा। नगालैंड के सीमावर्ती शहर मेरापानी में कोलियरी में हुए भूस्खलन में 6 श्रमिकों की मौत हो गई। इन सभी की मजदूरों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। घटना गुरुवार को उस समय हुई जब मजदूर खदान में खनन कार्य कर रहे थे। पुलिस के अनुसार सभी मृतक असम के गोलाघाट जिले के निवासी थे। मृतकों में तीन की पहचान मजीबुर अली, कमल छेत्री, बिशाल थापा के रूप में हुई है। जबकि तीन अन्य मृतकों की पहचान नहीं हो सकी है। इस दौरान चार अन्य श्रमिक घायल हुए हैं, जिन्हें डिमापुर के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घायल मजदूरों की हालत गंभीर है। नगालैंड में कोयला खदानों से उच्च गुणवत्ता वाले उत्पाद निकलते हैं। खासकर मोकोकचुंग जिले में उत्तरी खार, चांगकी कोयला ब्लॉक ए और बी और मोंगचेन-डिबुइया जैसे ब्लॉक हैं। इसके उच्च कैलोरी क्षमता, कम राख और कम नमी के कारण इसका उपयोग कागज, ईंट भट्टों, चाय बागानों और सिरेमिक जैसे क्षेत्रों में किया जाता है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 January 2024

new delhi, Prime Minister ,

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश के युवा मतदाताओं को अपनी सरकार की प्राथमिकता बताया और कहा कि देश को युवाओं पर सबसे अधिक विश्वास है। उन्होंने कहा कि युवा अपने वोट से देश की दिशा और दृष्टिकोण तय करेंगे।   राष्ट्रीय मतदाता दिवस के मौके पर गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) के ‘नमो नवमतदाता सम्मेलन’ को वर्चुअली संबोधित किया। प्रधानमंत्री ने कार्यक्रम में बड़ी संख्या में बेटियों के भाग लेने पर प्रसन्नता व्यक्त की।   प्रधानमंत्री ने युवाओं से ‘मेरा युवा भारत’ संगठन से जुड़ने और नमो एप पर लोकसभा चुनाव के लिए भाजपा के संकल्प पत्र के लिए भी सुझाव मांगे। उन्होंने कहा, “देश के युवा उनकी प्राथमिकता हैं। हमने हमेशा देश के युवाओं पर सबसे अधिक विश्वास किया है।”   उन्होंने कहा, “भारत के युवाओं को वोट देने की अपनी शक्ति का प्रयोग करना चाहिए और नमो ऐप पर अपनी राय व्यक्त करनी चाहिए।” मोदी ने कहा कि यह युवा ही हैं जो अपनी जन-भागीदारी के माध्यम से न केवल भाजपा के चुनाव घोषणापत्र को आकार देंगे, बल्कि भारत की भविष्य की नीति को भी आकार देंगे। प्रधानमंत्री ने सभी से मतदान करने का आग्रह करते हुए कहा, “आइए हम किसी को भी पीछे नहीं छोड़ने का संकल्प लें।”   वोट की ताकत पर जोर देते हुए मोदी ने कहा, “आज, अगर भारत ने अग्रणी सुधार, डिजिटल बुनियादी ढांचा और एक मजबूत और लचीली अर्थव्यवस्था हासिल की है, तो यह वोट की ताकत का प्रमाण है। उन्होंने कहा कि इस राष्ट्र के भरपूर युवा होने के नाते, युवाओं को इन अग्रणी सुधारों की निरंतरता सुनिश्चित करने के लिए अपना वोट अवश्य देना चाहिए।”   मोदी ने कहा, “18 से 25 वर्ष के बीच की उम्र युवाओं के जीवन को आकार देती है क्योंकि वे अपने जीवन में गतिशील परिवर्तन देखते हैं।” उन्होंने कहा कि इन बदलावों के साथ-साथ वे विभिन्न जिम्मेदारियों का भी हिस्सा बनते हैं और इस अमृत काल में भारत की लोकतांत्रिक प्रक्रिया को मजबूत करना भी भारत के युवाओं की जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा, “'अगले 25 साल भारत और उसके युवाओं दोनों के लिए महत्वपूर्ण हैं। 2047 तक भारत को विकसित भारत में बदलना युवाओं की जिम्मेदारी है।” भारत के स्वतंत्रता सेनानियों का सम्मान करते हुए, पीएम मोदी ने टिप्पणी की कि भारत के कई स्वतंत्रता सेनानी 18-25 वर्ष के आयु वर्ग के थे। उन्होंने कहा, ''अंतरिक्ष, रक्षा, विनिर्माण, प्रौद्योगिकी और नवाचार के क्षेत्रों में भारत की क्षमता उसके युवाओं पर निर्भर करेगी। उन्होंने कहा कि यह आपका वोट है जो भारत का भविष्य तय करेगा।   भ्रष्टाचार और परिवारवाद की राजनीति के मुद्दे पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, “भारत के युवाओं को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि शासन भ्रष्टाचार और परिवारवाद की राजनीति को बढ़ावा देने वाले राजनीतिक दलों के हाथों में न जाए।” उन्होंने कहा, “युवाओं की भूमिका एक समृद्ध और सुरक्षित भारत के लिए 'आओ वोट करें और उन्हें वोट देने दें' को सक्षम बनाना है।”   भारतीय युवाओं की सराहना करते हुए मोदी ने कहा, “'भारतीय युवाओं के पास प्रेरणा और नवीनता के साथ-साथ परंपरा और प्रतिभा भी है। उन्होंने कहा कि भारत के लोग असंभव को हासिल करने के लिए अपने युवाओं की ओर देखते हैं।” मोदी ने कहा कि इसके लिए, सरकार ने सुधारों और बुनियादी ढांचे के मामले में बहुत जरूरी संवर्धन प्रदान करके इस विकास प्रक्रिया में सहायता की है।   युवाओं की क्षमताओं पर बोलते हुए मोदी ने कहा कि ये सही समय है और भारत के युवा बड़े लक्ष्य की कल्पना कर रहे हैं और उन्हें हासिल भी कर रहे हैं। मोदी ने कहा, “2030 तक शून्य उत्सर्जन-आधारित भारतीय रेलवे और 2070 तक भारत के शुद्ध-शून्य उत्सर्जन सहित विभिन्न नवीकरणीय ऊर्जा लक्ष्यों को पूरा करने में युवाओं की भूमिका महत्वपूर्ण है।” उन्होंने कहा कि भारतीय युवाओं को भी इलेक्ट्रिक मोबिलिटी और 100 प्रतिशत रेल विद्युतीकरण का बीड़ा उठाना चाहिए।   सत्ता में स्थिर सरकार के साथ सुधार की क्षमता पर बोलते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, “यह एक स्थिर सरकार के कारण है कि अनुच्छेद 370 को निरस्त करना, जीएसटी का कार्यान्वयन, नारी शक्ति वंदन अधिनियम का पारित होना और बड़े पैमाने पर एफडीआई का आगमन संभव हो सका।” मोदी ने कहा, पिछले 10 वर्षों में सरकार का लक्ष्य केवल सुधार करना रहा है। उन्होंने कहा, “पिछले 10 वर्षों में, सरकार ने भ्रष्टाचार से शासन में विश्वसनीयता और घोटालों से उपलब्धियों में सफलता की कहानियों में बदलाव किया है।” उन्होंने कहा कि हमने केवल विभिन्न क्षेत्रों मंं भारत के लिए अवसरों को सुगम बनाया है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 January 2024

mumbai, ED summoned , Sanjay Raut

मुंबई। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने गुरुवार को शिवसेना (यूबीटी) के नेता संजय राऊत के भाई संदीप राऊत को कोरोना कालखंड में हुए कथित खिचड़ी घोटाला मामले में पूछताछ के लिए 30 जनवरी को पेश होने के लिए समन भेजा है। ईडी ने यह समन शिवसेना युवा नेता सूरज चव्हाण से पूछताछ के बाद जारी किया है।     कोरोनाकाल में मरीजों के लिए बांटी जाने वाली खिचड़ी में 2 करोड़ रुपये का घोटाला किए जाने का आरोप भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष किरीट सोमैया ने लगाया था। इस मामले की ईडी मनी लॉड्रिंग एंगल से जांच कर रही है। ईडी की टीम ने इस मामले में शिवसेना (यूबीटी) के युवा नेता सूरज चव्हाण को गिरफ्तार किया है। सूरज चव्हाण से पूछताछ के दौरान संजय राऊत के भाई संदीप राउत का नाम सामने आया है। कोरोना मरीजों के लिए मुंबई नगरनिगम की ओर से दो करोड़ रुपये की खिचड़ी बांटने का काम तीन कंपनियों को दिया गया था । इस मामले की छानबीन ईडी के अलावा मुंबई पुलिस की टीम भी कर रही है। खिचड़ी घोटाले में संजय राऊत के करीबी रिश्तेदार सुजीत पाटकर, सुनील बाला कदम, तत्कालीन मुंबई नगर निगम के उपायुक्त, सह्याद्रि रिफ्रेशमेंट के राजीव सालुंके, फोर्सवन मल्टी सर्विसेज, स्नेहा कैटर्स पार्टनर सहित बीएमसी अधिकारियों पर मामला दायर किया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 January 2024

new delhi, Jammu and Kashmir , Shah

नई दिल्ली। केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह ने कहा कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को समाप्त किए जाने के बाद से राज्य शांति के साथ विकास पथ पर बढ़ रहा है। राज्य के युवा पत्थरबाजी छोड़कर कम्प्यूटर को अपना रहे हैं।   शाह ने गुरुवार को दिल्ली से वर्चुअल माध्यम से जम्मू के लिए 100 ई बसों का लोकार्पण करते हुए कहा कि अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से यहां आतंकवाद की घटनाओं में कमी आई है। प्रायोजित पथराव की घटनाएं समाप्त हो गई हैं और राज्य में निवेश बढ़ा है। युवाओं को रोजगार मिल रहा है। वह मुख्यधारा से जुड़ रहे हैं।   शाह ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में शांति और सुरक्षा के नये युग की शुरुआत हुई है। राज्य में आतंकी घटनाओं में 70 फीसदी की कमी आई है। नागरिकों की मृत्यु में 81 फीसदी, सुरक्षा बलों की मृत्यु में 48 फीसदी की कमी आई है। राज्य में वर्ष 2023 में पथराव की एक भी घटना सामने नहीं आई है। इससे पता चलता है कि राज्य अब विकास की ओर बढ़ रहा है। राज्य में वर्ष 2023 में एक भी हड़ताल नहीं हुई है। टेरर फाइनेंस पर नकेल कसी गई है। आतंकी संगठनों पर पाबंदी लगाई गई है।   शाह ने कहा कि वर्ष 2019-20 में राज्य में 297 करोड़ का निवेश आया था। वर्ष 2022-23 में 2,153 करोड़ का निवेश आया है और 6 हजार करोड़ का निवेश पाइप लाइन में है। आज जम्मू-कश्मीर का युवा मुख्यधारा से जुड़कर राज्य को मजबूत कर रहा है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 January 2024

new delhi, Former Karnataka CM , joins BJP again

नई दिल्ली। कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री जगदीश शेट्टार करीब सात महीने बाद गुरुवार को फिर से भाजपा में शामिल हो गए। कर्नाटक विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा से टिकट कटने के बाद उन्होंने पार्टी छोड़ दी थी और कांग्रेस में शामिल हो गए थे। आज यहां भाजपा मुख्यालय में बीएस येदियुरप्पा और प्रदेश अध्यक्ष बी वाई विजयेंद्र और केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव की मौजूदगी में जगदीश ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 January 2024

kolkata, Rahul Gandhi, Bharat Jodo Nyay Yatra

कोलकाता। कांग्रेस नेता राहुल गांधी नेतृत्व में चल रही कांग्रेस की भारत जोड़ो न्याय यात्रा गुरुवार दोपहर पश्चिम बंगाल में प्रवेश कर गई है। असम से कूचबिहार के रास्ते बंगाल में यात्रा के प्रवेश करने के बाद राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर हमला बोला। उन्होंने विश्वास जताया कि विपक्षी गठबंधन ‘इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इन्क्लूसिव एलायंस’ (इंडी गठबंधन) देशभर में अन्याय के खिलाफ एकजुट होकर लड़ेगा। राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस की भारत जोड़ो न्याय यात्रा ने कूचबिहार जिले के बशीरहाट में प्रवेश किया है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अधीर रंजन चौधरी ने यहां पहुंचने पर राहुल गांधी का गर्मजोशी से स्वागत किया। असम कांग्रेस अध्यक्ष रिपुन बोरा ने अधीर चौधरी को तिरंगा सौंप कर बंगाल में इसकी शुरुआत की। राहुल गांधी ने कहा कि यात्रा से ‘न्याय’ शब्द को इसलिए जोड़ा गया है, क्योंकि देशभर में अन्याय व्याप्त है। गठबंधन देशभर में व्याप्त अन्याय के खिलाफ लड़ेगा। पश्चिम बंगाल में यात्रा के आने से एक दिन पहले ही बुधवार को ‘इंडी’ के घटक दल तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष ममता बनर्जी ने अचानक घोषणा कर दी कि लोकसभा चुनाव में उनकी पार्टी पश्चिम बंगाल में अकेले मैदान में उतरेगी। इससे विपक्षी गठबंधन को झटका लगा। इसके बाद कांग्रेस की प्रतिक्रिया आई कि ममता बनर्जी के बिना गठबंधन की कल्पना भी नहीं की जा सकती। गठबंधन में कांग्रेस के सहयोगी माकपा और अन्य वाम दल ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ में भाग ले सकते हैं। पश्चिम बंगाल में यह यात्रा 523 किलोमीटर की दूरी तय करेगी और छह जिलों तथा छह लोकसभा क्षेत्रों से गुजरेगी। अप्रैल-मई 2021 में पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के बाद से यह राहुल गांधी का पहला बंगाल दौरा है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 January 2024

bulandsahar, Prime Minister, gifts development projects

बुलंदशहर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गुरुवार को उत्तर प्रदेश को करीब 21 हजार करोड़ की विभिन्न विकास परियोजनाओं की सौगात दी। उन्होंने बागपत, गाजियाबाद, गौतमबुद्धनगर, हापुड़, बुलंदशहर और मेरठ जिले से संबंधित 20,700 करोड़ रुपये से अधिक की 46 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास। इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर के न्यू खुर्जा और न्यू रेवाड़ी के बीच 173 किलोमीटर रेलखंड पर मालगाड़ियों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। प्रधानमंत्री ने बुलंदशहर में आयोजित कार्यक्रम में कहा कि 22 जनवरी को अयोध्या धाम में प्रभु श्रीराम का दर्शन हुआ। आज जनता जनार्दन के दर्शन का सौभाग्य मिला है। आज वह जहां भी होंगे, वे खुश हो रहे होंगे। प्राण प्रतिष्ठा का कार्य पूरा हुआ है। राष्ट्र प्रतिष्ठापना का कार्य पूरा करना है। हमारा लक्ष्य 2027 तक भारत को विकसित राष्ट्र बनाना है। लक्ष्य बड़ा हो तो उसके लिए हर साधन जुटाना होता है। सबको मिलकर प्रयास करना होता है। भारत का विकास उत्तर प्रदेश के विकास के बिना संभव नहीं है। इसके लिए खेत खलिहाल, विज्ञान और उद्योग जैसी हर शक्ति को जगाना है। कार्य्रक्रम को संबोधित करते मुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उप्र के 25 करोड़ जनमानस की ओर से प्रधानमंत्री मोदी का हृदय से स्वागत अभिनंदन करता हूं। उप्र आज देश के विकास की प्रक्रिया के साथ तेजी से बढ़ता हुआ राज्य है। यह सब प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन और आशीर्वाद से संभव हो पा रहा है। हम सबका सौभाग्य है कि मोदी जैसा नेतृत्व हम सबको प्राप्त हो रहा है। मौसम की विपरीत परिस्थितियों को देखते हुए प्रधानमंत्री मोदी सड़क मार्ग से दिल्ली से बुलंद शहर पहुंचे हैं। इससे पहले कभी कोई प्रधानमंत्री ऐसे नहीं आया होगा। अयोध्या का कार्यक्रम पूरे भारत एवं दुनिया ने देखा है। उसके तुरंत बाद बुलंदशहर आए और उत्तर प्रदेश को 21 हजार करोड़ की परियोजनाओं की सौगात दे रहे हैं। पहले मीटर गेज को ब्राड ग्रज करने में भी दिक्कत होती थी। आज नई-नई ट्रेनें चलाई जा रही हैं।   इस मौके पर राज्यपाल आनंदी बेन पटेल, उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक, केंद्रीय राज्यमंत्री जनरल (रि.) वीके सिंह, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष भूपेन्द्र सिंह चौधरी समेत अन्य नेता मौजूद रहे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 January 2024

new delhi, 1132 policemen awarded ,service medals

नई दिल्ली। गणतंत्र दिवस के अवसर पर राज्यों के पुलिस सेवा, अग्निशमन सेवा, होम गार्ड और नागरिक सुरक्षा और सुधार सेवा में कार्यरत 1132 पुलिसकर्मियों को वीरता और सेवा पदक से सम्मानित किया गया है। यह जानकारी गृह मंत्रालय ने गुरुवार को दी। मंत्रालय के अनुसार 277 वीरता पदकों में से जम्मू-कश्मीर पुलिस के 72 कर्मियों, महाराष्ट्र के 18 पुलिसकर्मियों, छत्तीसगढ़ के 26 पुलिसकर्मियों, झारखंड के 23 पुलिसकर्मियों, ओडिशा के 15 पुलिसकर्मियों, दिल्ली के 08 पुलिसकर्मियों, सीआरपीएफ के 65 पुलिसकर्मियों, एसएसबी से 21 कर्मियों को प्रदान किए गए हैं। वहीं शेष कर्मी अन्य राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों और केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों से हैं। मंत्रालय के अनुसार 277 वीरता पदकों में से जम्मू-कश्मीर पुलिस के 72 कर्मियों, महाराष्ट्र के 18 पुलिसकर्मियों, छत्तीसगढ़ के 26 पुलिसकर्मियों, झारखंड के 23 पुलिसकर्मियों, ओडिशा के 15 पुलिसकर्मियों, दिल्ली के 08 पुलिसकर्मियों, सीआरपीएफ के 65 पुलिसकर्मियों, एसएसबी से 21 कर्मियों को प्रदान किए गए हैं। शेष कर्मी अन्य राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों और केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों से हैं। विशिष्ट सेवा के लिए 102 राष्ट्रपति पदक (पीएसएम) में से 94 पुलिस सेवा, 4 अग्निशमन सेवा और 4 नागरिक सुरक्षा एवं होम गार्ड सेवा को प्रदान किए गए हैं। सराहनीय सेवा (एमएसएम) के लिए 753 पदकों में से 667 पुलिस सेवा को, 32 अग्निशमन सेवा को, 27 नागरिक सुरक्षा और होम गार्ड सेवा को और 27 सुधार सेवा को प्रदान किए गए हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 January 2024

guwahati, Rahul Gandhi is "cowardly", Chief Minister Dr. Sarma

गुवाहाटी। मुख्यमंत्री डॉ. हिमंत बिस्व सरमा ने आरोप लगाया है कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी ''डरपोक'' हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि राहुल गांधी ने अपनी यात्रा के दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं को हिंसा भड़काने के लिए प्रोत्साहित किया। इसके बाद वे चुपचाप अपनी लग्जरी बस से बाहर निकल गए और एक छोटी कार में सवार होकर शहर छोड़कर अपने अगले पड़ाव हाजो की ओर चले गए। कांग्रेस नेता राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा 11वें दिन असम के बोंगाईगांव में पहुंचे हैं। मुख्यमंत्री डॉ सरमा ने बुधवार को सोशल मीडिया के जरिए राहुल गांधी पर गंभीर आरोप लगाए। मुख्यमंत्री सरमा ने अपने एक्स हैंडल पर बुधवार को लिखा, "दिलचस्प... कांग्रेस कार्यकर्ताओं को हिंसा के लिए उकसाने के बाद, राहुल गांधी (जो बस यात्रा पर हैं) चुपचाप अपनी फैंसी बस से बाहर आए और एक छोटी कार से शहर से भाग गए हाजो, जो उनकी अगली मंजिल है। राहुल ने डरपोक होने का एक नया मानक स्थापित किया है...हा हा।" उल्लेखनीय है कि मंगलवार को गुवाहाटी में राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा के दौरान कांग्रेस समर्थकों और असम पुलिस के बीच हुई झड़प मामले में कांग्रेस नेता राहुल गांधी, केसी वेणुगोपाल और कन्हैया कुमार समेत अन्य के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। एफआईआर में उन पर कई गैर जमानती धाराएं लगाई गई हैं। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 January 2024

imphal, e soldier shot , colleagues

इंफाल। दक्षिण मणिपुर में भारत-म्यांमार सीमा के निकट तैनात असम राइफल्स बटालियन में असम राइफल्स के एक जवान ने बुधवार को अपने साथियों पर ही ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। इसके उस जवान ने खुद को भी गोली मार ली। इस गोलीबारी में छह सैनिक घायल हुए हैं, जिन्हें सैन्य अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वरिष्ठ अधिकारी ने इस घटना की जांच के आदेश दिए है। मणिपुर पुलिस ने जानकारी दी है कि दक्षिण मणिपुर में भारत-म्यांमार सीमा के निकट तैनात असम राइफल्स बटालियन में असम राइफल्स के एक जवान ने फायरिंग कर दी है। बाद में उस जवान ने खुद को गोली मार ली। पुलिस के अनुसार इस गोलीबारी में छह सैनिक घायल हुए। घायलों में कोई भी मणिपुरी नहीं है। सभी घायलों को सैन्य अस्पताल पहुंचाया है, जहां उनकी हालत गंभीर बताई जा रही है। घटना की जांच के आदेश दे दिए गए हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 January 2024

guwahati, Congress President , Assam

गुवाहाटी। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने असम में राहुल गांधी की सुरक्षा को लेकर केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह को पत्र लिखा है। खड़गे ने असम में भारत जोड़ो न्याय यात्रा की सुरक्षा व्यवस्था पर चिंता व्यक्त किया है। खड़गे ने पत्र में असम में यात्रा के प्रवेश वाले दिन राहुल के साथ हुई घटना का जिक्र किया है। कांग्रेस अध्यक्ष ने आरोप लगाया है कि असम पुलिस ने भाजपा कार्यकर्ताओं को राहुल के काफिले के करीब आने की अनुमति दी। उनका सुरक्षा घेरा तोड़ दिया गया। राहुल की सुरक्षा को खतरे में डाला गया। उन्होंने आरोप लगाया है कि सार्वजनिक डोमेन में पर्याप्त सुबूत उपलब्ध होने के बावजूद किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है। खड़गे ने शाह से व्यक्तिगत हस्तक्षेप करने का अनुरोध किया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 January 2024

new delhi, India

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को ‘जेनरेशन जेड’ को ‘अमृत पीढ़ी’ की संज्ञा देते हुए कहा कि भारत की ‘अमृत पीढ़ी’ देश को अमृतकाल में नई ऊंचाइयों पर ले जाएगी। उन्होंने कहा कि ‘राष्ट्र प्रथम’ आपका गाइडिंग प्रिंसिपल होना चाहिए। ‘जेनरेशन जेड’ में 1996 से 2010 के बीच पैदा हुए युवा शामिल हैं।   प्रधानमंत्री ने अपने आवास पर गणतंत्र दिवस की परेड में शामिल होने वाले राष्ट्रीय कैडेट कोर (एनसीसी) और राष्ट्रीय सेवा योजना (एनएसएस) वॉलंटियर्स को संबोधित कर रहे थे। मोदी ने युवाओं को जीवन में अनुशासन का महत्व समझाते हुए उसे मोटिवेशन का मंत्र बनाने की सलाह दी। प्रधानमंत्री ने कहा, “आपकी पीढ़ी को आपके शब्दों में ‘जेनरेशन जेड’ कहा जाता है। लेकिन, मैं आपको 'अमृत पीढी' मानता हूं। आप वो लोग हैं, जिनकी ऊर्जा अमृत काल में देश को गति देगी। जो करना है वो देश के लिए करना है। राष्ट्र प्रथम- आपका गाइडिंग प्रिंसिपल होना चाहिए। अपने जीवन में कभी भी विफलता से परेशान नहीं होना है।” प्रधानमंत्री ने कहा, “आप सभी जानते हैं कि भारत ने 2047 तक एक विकसित राष्ट्र बनने का संकल्प लिया है। अगले 25 साल आपके और देश के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं। हमारा संकल्प है कि आपकी अमृत पीढ़ी का हर सपना पूरा हो। हमारा संकल्प है कि आपकी अमृत पीढ़ी के लिए अवसरों की भरमार हो। हमारा संकल्प है कि आपकी अमृत पीढ़ी के रास्ते की हर बाधा दूर हो।” उन्होंने कहा कि आप (एनसीसी और एनएसएस कैडेट्स) गणतंत्र दिवस की परेड का हिस्सा बनने जा रहे हैं। इस बार ये दो वजहों से और विशेष हो गया है। पहला ये कि यह 75वां गणतंत्र दिवस है और दूसरा यह कि पहली बार गणतंत्र दिवस की परेड देश की नारीशक्ति को समर्पित है। मोदी ने कहा कि आज 'राष्ट्रीय बालिका दिवस' है, आज बेटियों के साहस, जज्बे और उनकी उपलब्धियों का गुणगान करने का दिन है। बेटियों में समाज और देश को बेहतर बनाने की क्षमता होती है। इतिहास के अलग-अलग दौर में भारत की बेटियों ने अपने फौलादी इरादों और समर्पण की भावना से कई बड़े परिवर्तनों की नींव रखी है। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी नेता कर्पूरी ठाकुर को मरणोपरांत भारत रत्न देने की घोषणा का उल्लेख करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि कल देश ने एक बड़ा निर्णय लिया है। ये निर्णय जननायक कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न देने का है। आज की युवा पीढ़ी के लिए कर्पूरी ठाकुर के बारे में जानना, उनके जीवन से सीखना बहुत जरूरी है। ये हमारी सरकार का सौभाग्य है कि उसे जननायक कर्पूरी ठाकुर जी को भारत रत्न से सम्मानित करने का मौका मिला। उन्होंने कहा कि बेहद गरीबी और सामाजिक असमानता जैसी चुनौतियों से लड़ते हुए वे राष्ट्र जीवन में बहुत ऊंचे मुकाम पर पहुंचे थे। वे दो बार बिहार के मुख्यमंत्री भी रहे थे। इसके बावजूद उन्होंने अपना निर्मल स्वभाव और समाज के लिए काम करना कभी नहीं छोड़ा। जननायक कर्पूरी ठाकुर हमेशा अपनी सादगी के लिए जाने जाते रहे। उनका पूरा जीवन सामाजिक न्याय और वंचितों के उत्थान के लिए समर्पित रहा। आज भी उनकी ईमानदारी की मिसाल दी जाती है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 January 2024

new delhi, Karpoori Thakur

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि सामाजिक न्याय के लिए बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री व जननायक स्वर्गीय कर्पूरी ठाकुर ने पूरा जीवन लगा दिया था। ऐसे महान नेता को भारत रत्न से सम्मानित कर देश के प्रधानमंत्री ने गरीबों का मान बढ़ाया है। नड्डा ने बुधवार को एक बयान जारी कर कहा कि एक अत्यंत गरीब परिवार से निकल कर बिहार के मुख्यमंत्री पद को सुशोभित करने वाले, सामाजिक न्याय की लड़ाई लड़ने वाले जननायक कर्पूरी ठाकुर को प्रधानमंत्री मोदी द्वारा 'भारत रत्न' से सम्मानित करने के निर्णय की जितनी भी सराहना की जाए कम है। कर्पूरी ठाकुर को सम्मानित करने का मतलब है कि भारत के हर गरीब और वंचित को सम्मानित किया गया है।   नड्डा ने कहा कि ठाकुर ने गरीबों को न्याय दिलाने में पूरा जीवन लगा दिया। इसके लिए कभी भी उन्होंने अपने सिद्धांतों से समझौता नहीं किया। वह कांग्रेस के जन विरोधी नीतियों के खिलाफ लड़ते रहे। आपातकाल का भी उन्होंने जमकर विरोध किया।   नड्डा ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने पिछड़े वर्ग को सबसे अधिक पहचान और सम्मान देने का काम किया है। आज मोदी कैबिनेट में 27 मंत्री ओबीसी समाज से हैं। भाजपा के 100 से अधिक सांसद पिछड़े वर्ग से हैं। देशभर में 300 से अधिक भाजपा के विधायक पिछड़े वर्ग से आते हैं और 65 से अधिक एमएलसी पिछड़े वर्ग से हैं, जो यह दिखाता है कि पिछड़े वर्ग को सबसे अधिक पहचान और सम्मान प्रधानमंत्री मोदी ने दिलवाने का काम किया है। नड्डा ने कहा कि पिछले 10 वर्षों में प्रधानमंत्री ने गरीबों के कल्याण के लिए बहुत काम किए हैं। उसके लिए सामाजिक न्याय एक दृढ़ संकल्प है। उन्होंने गरीबों, पिछड़ों,अनुसूचित जातियों, महिलाओं व किसानों के विकास को सर्वोच्च प्राथमिकता दी है। प्रधानमंत्री ने पिछड़ा आयोग को संवैधानिक दर्जा दिलाने का काम किया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 January 2024

new delhi, 8500 crore project , coal gasification projects

नई दिल्ली। केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने सरकारी सार्वजनिक उपक्रमों और निजी क्षेत्र की कोयला/लिग्नाइट गैसीकरण परियोजनाओं को प्रोत्साहन देने से जुड़ी योजना को मंजूरी दी है।   प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में बुधवार को हुई केन्द्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में तीन श्रेणियों में वित्तीय सहायता देने से जुड़ी परियोजना को मंजूरी दी गई, जिन पर 8500 करोड़ रुपये का परिव्यय होगा। कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी के अनुसार पहली श्रेणी में सरकारी सार्वजनिक उपक्रमों के लिए 4,050 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। इसमें 3 परियोजनाओं तक 1,350 करोड़ रुपये या पूंजीगत व्यय का 15 प्रतिशत जो भी कम हो, का एकमुश्त अनुदान प्रदान किया जाएगा। दूसरी श्रेणी में निजी क्षेत्र के साथ-साथ सरकारी सार्वजनिक उपक्रमों के लिए 3,850 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। इसमें प्रत्येक परियोजना के लिए 1 हजार करोड़ रुपये या पूंजीगत व्यय का 15 प्रतिशत, जो भी कम हो, का एकमुश्त अनुदान प्रदान किया गया है। टैरिफ-आधारित बोली प्रक्रिया पर कम से कम एक परियोजना के लिए बोली लगाई जाएगी और इसके मानदंड नीति आयोग के परामर्श से तैयार किए जाएंगे। तीसरी श्रेणी में प्रदर्शन परियोजनाओं (स्वदेशी प्रौद्योगिकी), छोटे पैमाने के उत्पाद-आधारित गैसीकरण संयंत्रों के लिए 600 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। न्यूनतम पूंजीगत व्यय 100 करोड़ रुपये और 1500 एनएम3/घंटा सिन गैस का न्यूनतम उत्पादन वाली चयनित इकाई को इसके तहत 100 करोड़ रुपये या पूंजीगत व्यय का 15 प्रतिशत, जो भी कम हो, का एकमुश्त अनुदान दिया जाएगा। दूसरी और तीसरी श्रेणी के तहत संस्थाओं का चयन प्रतिस्पर्धी और पारदर्शी बोली प्रक्रिया के माध्यम से किया जाएगा। चयनित इकाई को अनुदान का भुगतान दो समान किश्तों में किया जाएगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 January 2024

new delhi,

नई दिल्ली। दिल्ली की जामिया मिल्लिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी में ‘स्ट्राइक फॉर बाबरी’ जैसे नारे लगाए जाने का वीडियो सामने आया है। इसके बाद एतहियात के तौर पर सोमवार को यूनिवर्सिटी के बाहर पुलिसकर्मियों को तैनात कर दिया गया है।   डीसीपी राजेश देव ने बताया कि लुबाबिब बशीर के नेतृत्व में फ्रेटरनिटी मूवमेंट नामक एक समूह द्वारा कुछ विरोध प्रदर्शन के बारे में सोमवार को जानकारी प्राप्त हुई थी। उसी को देखते हुए एहतियातन फोर्स की तैनाती की गई है। डीसीपी के अनुसार कैंपस के बाहर कोई विरोध प्रदर्शन नहीं किया गया। स्थानीय पुलिस परिसर के अंदर नहीं गयी। सोशल में मीडिया में चलने वाला वीडियो कैंपस के अंदर का हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 January 2024

ayodhya, Seeing the supernatural ,Shri Ram Lalla

अयोध्या। रोम-रोम में श्रद्धा-भक्ति-विश्वास... आस्था पथ पर बढ़ते रामभक्त, जय-जय श्रीराम के उद्घोष, ऐसा भक्तिमय माहौल और अद्भुत नजारा आज रामलला दरबार का है। अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के बाद मंगलवार को दर्शन का पहला दिन है। आम लोगों के लिए जब मंदिर खोला गया तो लोगों में पहले अंदर जाने के लिए होड़ सी मच गई।श्रद्धालुओं के जयघोष से पूरी अयोध्या एवं श्रीराम मंदिर परिसर राममय है। रामलला के दर्शन के लिए श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ी है। पहले दिन लगभग 20 लाख श्रद्धालुओं के आगमन का अनुमान है।   अयोध्या में रामलला के अलौकिक स्वरूप को देखकर ऐसा अहसास हो रहा है जैसे ब्रह्मानंद की प्राप्ति हो रही हो। श्रद्धालु रामलला का 'रत्न जड़ित करुना सुख सागर श्रीराम' के अलौकिक स्वरूप में दर्शन कर निहाल और विह्वल हो रहे हैं। अद्भुत, अलौकिक, अविस्मरणीय जैसे तमाम शब्द अखिल ब्रह्मांड के राजा प्रभु श्रीराम के नए महल की शोभा के आगे फीके से लग रहे हैं। एक-एक कोना चमक रहा है, जिधर नजर घुमाओ बस चमक ही चमक है। जिस तरह त्रेतायुग में राजा दशरथ का महल हुआ करता था, कलयुग का भी भव्य राम मंदिर वैसे ही नजर आ रहा है। अपने आराध्य देव की मनोहारी छवि देख रामभक्तों के नयन छलक उठे। समवेत स्वर में जय-जय श्रीराम की गूंज होने लगी। अद्भुत, अलौकिक, अविस्मरणीय... श्रद्धालु मंत्रमुग्ध रामलला की अद्भुत मूर्ति चेहरे पर मुस्कान भगवान राम की विनम्रता और मधुरता के बारे में बता रही थी। पहली नजर में रामलला की यह मूर्ति देखने वालों को मंत्रमुग्ध कर दे रही थी। आस्था और अध्यात्म की झलक इस मूर्ति से झलक रही थी, जो पहली ही नजर में रामभक्तों को आकर्षित कर रही थी। भगवान राम के मस्तक पर लगा तिलक सनातन धर्म की विराटता का प्रतीक, जो देखने वालों को भक्ति की एक अलग दुनिया में ले जाता है। मूर्ति में ऊं, गणेश, चक्र, शंख, गदा और स्वास्तिक की आकृति बनी हुई है। नीले-श्यामल रंग के पत्थर से बनी मूर्ति में रामलला का विहंगम रूप दिखाई दे रहा था। रामलला के चारों तरफ आभामंडल है। सिर पर सूर्य बना हुआ है। दाहिना हाथ आशीर्वाद की मुद्रा में है। आभामंडल में नीचे हनुमानजी की मूर्ति व भगवान विष्णु के 10 अवतार के साथ सनातन धर्म के प्रतीक चिह्न बनाए गए हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 January 2024

new delhi, Prime Minister ,

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को अयोध्या में नवनिर्मित श्रीराम जन्मभूमि मंदिर में श्रीरामलला के प्राण प्रतिष्ठा समारोह से दिल्ली लौटते ही ‘प्रधानमंत्री सूर्योदय योजना’ शुरू करने की घोषणा की। योजना के तहत सरकार ने 1 करोड़ घरों पर रूफटॉप सोलर लगाने का लक्ष्य रखा है।   प्रधानमंत्री मोदी ने रूफटॉप सोलर के साथ कुछ तस्वीरें साझा करते हुए लिखा, “सूर्यवंशी भगवान श्री राम के आलोक से विश्व के सभी भक्तगण सदैव ऊर्जा प्राप्त करते हैं। आज अयोध्या में प्राण-प्रतिष्ठा के शुभ अवसर पर मेरा ये संकल्प और प्रशस्त हुआ कि भारतवासियों के घर की छत पर उनका अपना सोलर रूफ टॉप सिस्टम हो।” उन्होंने कहा कि अयोध्या से लौटने के बाद मैंने पहला निर्णय लिया है कि हमारी सरकार 1 करोड़ घरों पर रूफटॉप सोलर लगाने के लक्ष्य के साथ ‘प्रधानमंत्री सूर्योदय योजना’ प्रारंभ करेगी। प्रधानमंत्री ने कहा कि इससे गरीब और मध्यम वर्ग का बिजली बिल तो कम होगा ही, साथ ही भारत ऊर्जा के क्षेत्र में आत्मनिर्भर भी बनेगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 January 2024

ayodhya,  temple , Chief Minister Yogi

अयोध्या। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने श्री अयोध्याधाम में श्रीरामलला के बालरूप विग्रह की प्राण-प्रतिष्ठा समारोह पूर्ण होने के उपरांत अपने मनोभाव प्रकट किया। उन्होंने कहा कि मंदिर वहीं बना है, जहां बनाने का संकल्प लिया था। उन्होंने अपने सम्बोधन की शुरूआत 'रामाय रामभद्राय रामचन्द्राय वेधसे। रघुनाथाय नाथाय सीतायाः पतये नमः' से की। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि 500 वर्षों के लबे अंतराल के उपरांत आज के इस चिरप्रतीक्षित मौके पर अंतर्मन में भावनाएं कुछ ऐसी हैं कि उन्हें व्यक्त करने को शब्द नहीं मिल रहे हैं। मन भावुक है, भाव विभोर है, भाव विह्वल है। निश्चित रूप से आप सब भी ऐसा ही अनुभव कर रहे होंगे। आज इस ऐतिहासिक और अत्यंत पावन अवसर पर भारत का हर नगर-हर ग्राम अयोध्याधाम है। हर मार्ग श्रीरामजन्मभूमि की ओर आ रहा है। हर मन में राम नाम है। हर आंख हर्ष और संतोष के आंसू से भीगा है। हर जिह्वा राम-राम जप रही है। रोम रोम में राम रमे हैं। पूरा राष्ट्र राममय है। ऐसा लगता है हम त्रेतायुग में आ गए हैं। आज रघुनन्दन राघव रामलला, हमारे हृदय के भावों से भरे संकल्प स्वरूप सिंहासन पर विराज रहे हैं। आज हर रामभक्त के हृदय में प्रसन्नता है, गर्व है और संतोष के भाव हैं। आखिर भारत को इसी दिन की तो प्रतीक्षा थी। उन्होंने कहा कि भाव-विभोर कर देने वाली इस दिन की प्रतीक्षा में लगभग पांच शताब्दियां व्यतीत हो गईं, दर्जनों पीढ़ियां अधूरी कामना लिए इस धराधाम से साकेतधाम में लीन हो गईं, किन्तु प्रतीक्षा और संघर्ष का क्रम सतत जारी रहा।   मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि श्रीरामजन्मभूमि, संभवतः विश्व में पहला ऐसा अनूठा प्रकरण रहा होगा, जिसमें किसी राष्ट्र के बहुसंख्यक समाज ने अपने ही देश में अपने आराध्य के जन्मस्थली पर मंदिर निर्माण के लिए इतने वर्षों तक और इतने स्तरों पर लड़ाई लड़ी हो। संन्यासियों, संतों, पुजारियों, नागाओं, निहंगों, बुद्धिजीवियों, राजनेताओं, वनवासियों सहित समाज के हर वर्ग ने जाति-पाति, विचार-दर्शन, उपासना पद्धति से ऊपर उठकर राम काज के लिए स्वयं का उत्सर्ग किया। अंततः आज वह शुभ अवसर आ ही गया कि जब कोटि-कोटि सनातनी आस्थावानों के त्याग और तप को पूर्णता प्राप्त हो रही है। उन्होंन कहा कि आज संतोष इस बात का भी है कि मंदिर वहीं बना है, जहां बनाने का संकल्प लिया था। संकल्प और साधना की सिद्धि के लिए, हमारी प्रतीक्षा की समाप्ति के लिए, हमारे संकल्प पूर्णता के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का हृदय से आभार और अभिनंदन। प्रधानमंत्री जी! 2014 में आपके ‘आगमन’ के साथ ही भारतीय जनमानस कह उठा था... मोरे जिय भरोस दृढ़ सोई। मिलिहहिं राम सगुन सुभ होई॥ अभी गर्भगृह में वैदिक विधि-विधान से रामलला के बाल विग्रह के प्राण-प्रतिष्ठा के हम सभी साक्षी बने। अलौकिक छवि है हमारे प्रभु की। बिल्कुल वैसे, जैसा संत तुलसीदास जी ने वर्णन किया है...नवकंज लोचन। कंज मुख। कर कंज। पद कन्जारुणम्। उन्होंने कहा कि धन्य हैं वह शिल्पी, जिसने हमारे मन में बसे राम की छवि को मूर्त रूप प्रदान किया। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि विचारों और भावनाओं की विह्वलता के बीच मुझे पूज्य संतों और अपनी गुरु परम्परा का पुण्य स्मरण हो रहा है। आज उनकी आत्मा को असीम संतोष और आनन्द की अनुभूति हो रही होगी, जिन परम्पराओं की पीढ़ियां श्रीराम जन्मभूमि मुक्ति यज्ञ में अपनी आहुति दे चुकी हैं, उनकी पावन स्मृति को यहां पर कोटि-कोटि नमन करता हूँ। उन्होंने कहा कि श्रीरामजन्मभूमि मुक्ति महायज्ञ न केवल सनातन आस्था व विश्वास की परीक्षा का काल रहा, बल्कि, संपूर्ण भारत को एकात्मकता के सूत्र में बांधने के लिए राष्ट्र की सामूहिक चेतना जागरण के ध्येय में भी सफल सिद्ध हुआ। सदियों के बाद भारत में हो रहे इस चिरप्रतिक्षित नवविहान को देख अयोध्या समेत भारत का वर्तमान आनन्दित हो उठा है। भाग्यवान है हमारी पीढ़ी, जो इस राम-काज के साक्षी बन रहे हैं और उससे भी बड़भागी हैं वो जिन्होंने सर्वस्व इस राम-काज के लिए समर्पित किया है और करते चले जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि जिस अयोध्या को 'अवनि की अमरावत' और 'धरती का वैकुंठ' कहा गया, वह सदियों तक अभिशप्त रही। उपेक्षित रही। सुनियोजित तिरस्कार झेलती रही। अपनी ही भूमि पर सनातन आस्था पददलित होती रही, चोटिल होती रही। राम का जीवन हमें संयम की शिक्षा देता है और भारतीय समाज ने संयम बनाये रखा, लेकिन हर एक नए दिन के साथ हमारा संकल्प और दृढ़ होता गया। और आज देखिए... पूरी दुनिया अयोध्या जी के वैभव को निहार रही है। हर कोई अयोध्या आने को आतुर है। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि आज अयोध्या में त्रेतायुगीन वैभव उतर आया है। दिख रहा है। यह धर्म नगरी ‘विश्व की सांस्कृतिक राजधानी’ के रूप में प्रतिष्ठित हो रही है। पूरा विश्व दिव्य और भव्य अयोध्या का साक्षात्कार कर रहा है। आज जिस सुनियोजित एवं तीव्र गति से अयोध्यापुरी का विकास हो रहा है, वह प्रधानमंत्री के दृढ़संकल्प, इच्छाशक्ति एवं दूरदर्शिता के बिना संभव नहीं था। कुछ वर्षों पहले तक यह कल्पना से परे था कि अयोध्या में एयरपोर्ट होगा। यहां नगर के भीतर 04 लेन सड़क होगी। सरयू जी में क्रूज चलेंगे। अयोध्या की खोई गरिमा वापस आएगी, लेकिन डबल इंजन सरकार के प्रयासों से यह सब सपना साकार हो रहा है। सांस्कृतिक अयोध्या, आयुष्मान अयोध्या, स्वच्छ अयोध्या, सक्षम अयोध्या, सुरम्य अयोध्या, सुगम्य अयोध्या, दिव्य अयोध्या और भव्य अयोध्या के रूप में पुनरोद्धार के लिए हजारों करोड़ रुपये लग रहे हैं। आज यहां राम जी की पैड़ी, नया घाट, गुप्तार घाट, ब्रह्मकुंड आदि विभिन्न कुंडों के कायाकल्प, संरक्षण, संचालन और रखरखाव का कार्य हो रहा है। उन्होंने कहा कि रामायण परंपरा की 'कल्चरल मैपिंग' कराई जा रही है, राम वन गमन पथ पर रामायण वीथिकाओं का निर्माण हो रहा है। इस नई अयोध्या में पुरातन संस्कृति और सभ्यता का संरक्षण तो हो ही रहा है, भविष्य की जरूरतों को देखते हुए आधुनिक पैमाने के अनुसार सभी नगरीय सुविधाएं भी विकसित हो रहीं हैं। इस मोक्षदायिनी नगरी को प्रधानमंत्री की प्रेरणा से ‘सोलर सिटी’ के रूप में विकसित किया जा रहा। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि नई अयोध्या पूरे विश्व के सनातन आस्थावानों, संतों, पर्यटकों, शोधार्थियों, जिज्ञासुओं के लिए प्रमुख केंद्र बनने की ओर अग्रसर है। उन्हाेंने कहा कि यह एक नगर या तीर्थ स्थल भर का विकास नहीं है, यह उस विश्वास की विजय है, जिसे ‘सत्यमेव जयते’ के रूप में भारत के राजचिह्न में अंगीकार किया गया है। यह लोकआस्था-जन विश्वास की विजय है। भारत के गौरव की पुनर्प्रतिष्ठा है। अयोध्या का दिव्य दीपोत्सव नए भारत की सांस्कृतिक पहचान बन रहा है और श्री रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा समारोह भारत की सांस्कृतिक अन्तरात्मा की समरस अभिव्यक्ति सिद्ध हो रहा। उन्होंने कहा कि श्रीरामजन्मभूमि मंदिर की स्थापना भारत के सांस्कृतिक पुनर्जागरण का आध्यात्मिक अनुष्ठान है, यह राष्ट्र मंदिर है। निःसन्देह! श्रीरामलला विग्रह की प्राण-प्रतिष्ठा राष्ट्रीय गौरव का ऐतिहासिक अवसर है। निश्चिंत रहिए! रामकृपा से अब कभी कोई भी अयोध्या की परिक्रमा में बाधक नहीं बन पाएगा। अयोध्या की गलियों में गोलियों की गड़गड़ाहट नहीं होगी। कर्फ्यू नहीं लगेगा। अपितु राम नाम संकीर्तन से गुंजायमान होगी। अवधपुरी में रामलला का विराजना भारत में रामराज्य की स्थापना की उद्घोषणा है। रामराज बैठे त्रैलोका। हर्षित भये गए सब सोका।। रामराज्य, भेदभाव रहित समरस समाज का द्योतक है। हमारे प्रधानमंत्री की नीतियों-विचारों और योजनाओं का आधार है। उन्होंने अंत में भव्य दिव्य श्रीरामजन्मभूमि मंदिर के स्वप्न को साकार रूप देने में योगदान करने वाले सभी वास्तुविदों, अभियंताओं, शिल्पियों और श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास के सभी पदाधिकारियों को हृदय से धन्यवाद दिया। पुनः आप सभी को श्रीरामलला के विराजने की ऐतिहासिक पुण्य घड़ी की बधाई। जो संकल्प हमारे पूर्वजों ने लिया था, उसकी सिद्धि की सभी को बधाई। प्रभु के चरणों मे नमन। सभी को कोटि-कोटि बधाई। सीएम योगी ने प्रधानमंत्री व सर संघचालक को भेंट किया चांदी के राम मंदिर का मॉडल समारोह के पूर्व उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री व गोरक्षपीठाधीश्वर योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सर संघचालक मोहन भागवत का स्वागत किया। सीएम ने दोनों अभ्यागतों को श्रीराम मंदिर का चांदी का मॉडल भेंट कर अयोध्या धाम की पावन धरा पर अभिनंदन किया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 January 2024

ayodhya,  Ram has arrived, Prime Minister

अयोध्या। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को अयोध्या में नवनिर्मित श्रीराम जन्मभूमि मंदिर में श्रीरामलला के प्राण प्रतिष्ठा समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि सदियों की लंबी प्रतीक्षा के बाद आज हमारे राम आ गये हैं। हमारे राम लला अब टेंट में नहीं बल्कि दिव्य मंदिर में रहेंगे। प्रधानमंत्री ने देशवासियों से अब अगले एक हजार वर्षों के भारत की नींव रखने का आह्वान किया। उन्होंने कहा, “त्रेता युग' में भगवान राम के आने के बाद राम राज्य की स्थापना हुई। वह हजारों वर्षों तक हमें रास्ता दिखाते रहे। अब, अयोध्या की भूमि हमसे सवाल पूछ रही है, सदियों का इंतजार खत्म हो गया है। मोदी ने कहा, “आज मैं पूरे पवित्र मन से महसूस कर रहा हूं कि कालचक्र बदल रहा है। ये सुखद संयोग है कि हमारी पीढ़ी को एक कालजयी पथ के शिल्पकार के रूप में चुना गया है। हजार वर्ष बाद की पीढ़ी राष्ट्रनिर्माण के हमारे आज के कार्यों को याद करेगी। इसलिए मैं कहता हूं - यही समय है, सही समय है। हमें आज से, इस पवित्र समय से अगले 1 हजार साल के भारत की नींव रखनी है। मंदिर निर्माण से आगे बढ़कर हम सभी देशवासी इस पल से समर्थ, सक्षम, भव्य, दिव्य भारत के निर्माण की सौगंध लेते हैं।”   प्रधानमंत्री ने न्याय करने और कानून के मुताबिक मंदिर बनाने के लिए सुप्रीम कोर्ट का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा, “भारत के संविधान की पहली प्रति में भगवान राम विराजमान हैं। संविधान के अस्तित्व में आने के बाद भी दशकों तक प्रभु श्रीराम के अस्तित्व को लेकर कानूनी लड़ाई चली। मैं आभार व्यक्त करूंगा भारत की न्यायपालिका का, जिसने न्याय की लाज रख ली।” प्रधानमंत्री ने कहा कि आज देश में निराशा के लिए रत्ती भर भी जगह नहीं है।   भगवान राम के अस्तित्व पर सवाल उठाने वालों को आड़े हाथों लेते हुए मोदी ने कहा कि कुछ लोग कहते थे कि राम मंदिर बना तो आग लग जाएगी। ऐसे लोग भारत के सामाजिक भाव की पवित्रता को नहीं जान पाए। रामलला के इस मंदिर का निर्माण भारतीय समाज के शांति, धैर्य, आपसी सद्भाव और समन्वय का भी प्रतीक है। ये निर्माण किसी आग को नहीं बल्कि ऊर्जा को जन्म दे रहा है। मोदी ने ऐसे लोगों का अपनी सोच पर पुनर्विचार करने की सलाह देते हुए कहा, “राम आग नहीं है, राम ऊर्जा है। राम विवाद नहीं, राम समाधान है। राम सिर्फ हमारे नहीं, राम तो सबके हैं।”   प्रधानमंत्री ने कहा कि 22 जनवरी, 2024 का ये सूरज एक अद्भुत आभा लेकर आया है। ये कैलेंडर पर लिखी एक तारीख नहीं बल्कि ये एक नए कालचक्र का उद्गम है। आज गांव-गांव में एक साथ कीर्तन, संकीर्तन हो रहे हैं। आज मंदिरों में उत्सव हो रहे हैं, स्वच्छता अभियान चलाए जा रहे हैं, पूरा देश आज दीपावली मना रहा है। आज शाम घर-घर राम ज्योति प्रज्वलित करने की तैयारी है।   उन्होंने मंदिर निर्माण में हुई देरी के लिए प्रभु श्रीराम से क्षमा याचना की। उन्होंने कहा, “हमारे पुरुषार्थ, त्याग और तपस्या में कुछ तो कमी रह गई होगी कि हम इतनी सदियों तक ये कार्य कर नहीं पाए। आज वो कमी पूरी हुई है।” उन्होंने कहा, “आज हमारे राम आ गए हैं। सदियों की प्रतीक्षा के बाद हमारे राम आ गए हैं। सदियों के अभूतपूर्व धैर्य, अनगिनत बलिदान, त्याग और तपस्या के बाद हमारे प्रभु राम आ गए हैं। इस शुभ घड़ी की आप सभी को, समस्त देशवासियों को बहुत-बहुत बधाई।” उन्होंने कहा कि हमारे रामलला अब टेंट में नहीं रहेंगे। हमारे रामलला अब इस दिव्य मंदिर में रहेंगे। मेरा पक्का विश्वास और अपार श्रद्धा है कि जो घटित हुआ है, इसकी अनुभूति देश के, विश्व के कोने-कोने में रामभक्तों को हो रही होगी। ये क्षण आलौकिक है, ये पल पवित्रतम है।   प्रधानमंत्री ने प्राण प्रतिष्ठा के लिए अपने 11 दिवसीय धार्मिक अनुष्ठान का जिक्र करते हुए कहा कि उन्होंने इस दौरान उन स्थानों पर जाने की कोशिश की जहां भगवान राम ने कदम रखे थे। पिछले 11 दिनों में अलग-अलग भाषाओं और अलग-अलग राज्यों में रामायण सुनने का मौका मिला। भगवान राम को परिभाषित करते हुए संतों ने कहा है कि भगवान राम हर किसी में बसते हैं। हर युग के लोगों ने भगवान राम को जीया है। हर युग के लोगों ने युगों ने भगवान राम को अपनी भाषाओं में व्यक्त किया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 January 2024

asam, Police stopped, Rahul Gandhi

नगांव । कांग्रेस नेता राहुल गांधी के काफिले को प्रशासन ने बटद्रवा सत्र थान जाने से रोक दिया है। जिले के धिंग गेट पर तैनात पुलिस ने राहुल गांधी के काफिले को रोकने का कारण बताते हुए कहा कि दोपहर तीन बजे से पहले उनकी यात्रा बटद्रवा थान नहीं जा सकती है। दरअसल, सोमवार को अयोध्या में राम मंदिर में होनेवाले प्राण-प्रतिष्ठा समारोह से संबंधित सत्र के कार्यक्रम में टकराव की आशंका के चलते बटद्रवा सत्र थान ने राहुल गांधी से रविवार की प्रस्तावित यात्रा को स्थगित करने को कहा था। इस संबंध में रविवार को श्रीश्री बटद्रवा थान संचालन समिति ने बटद्रवा के विधायक सिबामोनी बोरा को एक पत्र लिखकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी से महापुरुष श्रीमंत शंकरदेव की जन्मस्थली श्रीश्री बटद्रवा थान की अपनी यात्रा को पुनर्निर्धारित करने का आग्रह किया था। समिति ने यह निर्णय रविवार को एक आपातकालीन बैठक बुलाकर लिया। पत्र में कहा गया था कि बटद्रवा थान में राहुल गांधी का स्वागत है, वे कभी भी यहां दर्शन करने आ सकते हैं। लेकिन, सोमवार को उसी समय रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा को लेकर कार्यक्रम होना है, उसी समय राहुल गांधी के यहां आने से तकनीकी दिक्कतें आ सकती हैं। राहुल गांधी से कहा गया है कि वह सुबह आने के बदले दोपहर तीन बजे के बाद यहां आ सकते हैं। उल्लेखनीय है कि राहुल गांधी की प्रस्तावित यात्रा से 22 जनवरी को सुबह 8 से 9 बजे के बीच निर्धारित की गई थी। श्रीश्री बटद्रवा थान परिचालन समिति के अध्यक्ष जोगेंद्र नारायण देव महंत ने मौजूदा परिस्थितियों के मद्देनजर सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 January 2024

new delhi, Ayodhyadham,

नई दिल्ली। 'कश्मीर में बर्फ से ढकी ऊंची चोटियों से लेकर कन्याकुमारी में धूप से सराबोर समुद्र तटों तक, राम नाम की गूंज ने पूरे भारत में भक्ति का माहौल बना दिया है। अब यह भक्ति अयोध्या में ऐतिहासिक राम मंदिर के रूप में मूर्त रूप ले रही है। यह गौरवमय मंदिर भारत की एकता और भक्ति के प्रतीक के रूप में खड़ा है, न केवल भव्यता में, बल्कि देश-विदेश से मिले योगदान के रूप में भी अद्वितीय है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की 'एक भारत, श्रेष्ठ भारत' पहल इस मंदिर के साथ गहराई से जुड़ी दिखती है। यह मंदिर उस अटूट विश्वास और उदारता का प्रमाण है जो किसी सीमा से परे किसी मंदिर के तीर्थाटन के लिए पूरे देश को जोड़ती है।' यह विचारपुंज प्रभु श्रीराम की नगरी अयोध्याधाम में होने वाले प्राण प्रतिष्ठा समारोह की पूर्व संध्या पर रविवार को भारत सरकार के पत्र एवं सूचना कार्यालय (पीआईबी) ने बिखेरे हैं। पीआईबी के अनुसार, मंदिर का मुख्य भाग राजसीठाठ-बाट लिए हुए है। यह राजस्थान के मकराना संगमरमर की प्राचीन श्वेत शोभा से सुसज्जित है। इस मंदिर में देवताओं की उत्कृष्ट नक्काशी कर्नाटक के चर्मोथी बलुआ पत्थर पर की गई है। जबकि, प्रवेश द्वार की भव्य आकृतियों में राजस्थान के बंसी पहाड़पुर के गुलाबी बलुआ पत्थर का उपयोग किया गया है।   इस मंदिर के लिए भक्तों का किया गया योगदान निर्माण सामग्री से कहीं आगे तक जाता है। मंदिर में गुजरात की उदारता उपहार स्वरूप 2100 किलोग्राम की शानदार अष्टधातु घंटी के रूप में दिखती है जो इसके हॉलों में दिव्य धुन के रूप में गूंजेगी। इस दिव्य घंटी के साथ गुजरात ने एक विशेष नगाड़ा ले जाने वाला अखिल भारतीय दरबार समाज द्वारा तैयार 700 किलोग्राम का रथ भी उपहार स्वरूप दिया है। भगवान राम की मूर्ति बनाने में इस्तेमाल किया गया काला पत्थर कर्नाटक से आया है। हिमालय की तलहटी से अरुणाचल प्रदेश और त्रिपुरा ने जटिल नक्काशीदार लकड़ी के दरवाजे और हस्तनिर्मित संरचना पेश किए हैं, जो दिव्य क्षेत्र के प्रवेश द्वार के रूप में खड़े हैं।   इस विशेष विज्ञप्ति के अनुसार, इस भव्य और दिव्य मंदिर के लिए योगदान की सूची यहीं खत्म नहीं होती। पीतल के बर्तन उत्तर प्रदेश से तो पॉलिश की हुई सागौन की लकड़ी महाराष्ट्र से आई है। इस राम मंदिर की कहानी सिर्फ सामग्री और उसकी भौगोलिक उत्पत्ति के बारे में नहीं है। यह उन अनगिनत हजारों प्रतिभाशाली शिल्पकारों और कारीगरों की कहानी है जिन्होंने मंदिर निर्माण के इस पवित्र प्रयास में अपना दिल, आत्मा और कौशल डाला है।   राम मंदिर अयोध्या में सिर्फ एक स्मारक नहीं है; यह विश्वास की एकजुट शक्ति का जीवंत प्रमाण है। हर पत्थर, हर नक्काशी, हर घंटी, हर संरचना 'एक भारत, श्रेष्ठ भारत' की कहानी कहती है जो भौगोलिक सीमाओं से परे सामूहिक आध्यात्मिक यात्रा में दिलों को जोड़ता है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 January 2024

guwahati, Assam Chief Minister, Rahul Gandhi

गुवाहाटी। असम के मुख्यमंत्री डॉ हिमंत बिस्व सरमा ने कांग्रेस सांसद राहुल गांधी पर पलटवार करते हुए कहा कि ''आप और आपके परिवार से बढ़कर भ्रष्टाचारी कौन हो सकता है। भ्रष्टाचार के मामले में ज़मानत पर बाहर हैं। आप भ्रष्टाचार में लिप्त होकर दूसरे को भ्रष्ट कहते हैं।''   मुख्यमंत्री डॉ सरमा रविवार को यहां लोक सेवा भवन में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। दरअसल, कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने अपने भाषण में कहा था कि हिमंत बिस्व सरमा असम के सबसे भ्रष्ट मुख्यमंत्री हैं, सरमा का परिवार और उनके बच्चे भी भ्रष्टाचार में शामिल हैं। राहुल गांधी ने अपनी न्याय यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री को सलाह दी थी कि उन्हें भाजपा शासित अन्य राज्यों के मुख्यमंत्रियों से सबक लेना चाहिए कि भ्रष्टाचार कैसे किया जाता है। राहुल के इस बयान पर पलटवार करते हुए रविवार को मुख्यमंत्री डॉ सरमा ने कहा कि ''भोपाल गैस कांड के मुख्य आरोपित- वारेन एंडरसन के देश से फ़रार होने में राहुल गांधी के परिवार का हाथ था। बोफ़ोर्स घोटाला के मुख्य आरोपित के पलायन के पीछे आपका परिवार का ही हाथ था। टूजी घोटाला और कोयला घोटाला आप ही के परिवार के संरक्षण में हुआ था। इन घोटालों में जितने पैसों की चोरी की गई थी, वह असम की जीडीपी से पांच गुना अधिक हैं। डाॅ सरमा ने कहा कि हैरानी की बात यह हैं कि आप भ्रष्टाचार में लिप्त होकर दूसरे को भ्रष्ट कहने का साहस रखते हैं। असम की जनता ने आपकी इस “न्याय यात्रा” का करारा जवाब दिया। मैं आपकी हताशा को समझ सकता हूं।'' मुख्यमंत्री ने कहा कि राहुल गांधी पहले तो मुझसे डरते थे, अब मेरे परिवार और मेरे बच्चों से भी डर रहे हैं। इसलिए उन पर एक के बाद एक आरोप लगा रहे हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 January 2024

chandigarh, Akali Dal and BSP , Punjab

चंडीगढ़। पंजाब में शिरोमणि अकाली दल व बहुजन समाज पार्टी के बीच राजनीतिक गठबंधन अभी जारी रहेगा और दोनों पार्टियां मिलकर यह चुनाव लड़ेंगी। बसपा सुप्रीमो मायावती से मुलाकात के बाद पार्टी की पंजाब इकाई के प्रधान जसबीर सिंह गढ़ी ने साफ कर दिया है कि अकाली दल व बसपा गठबंधन मिलकर ही लोकसभा चुनाव लड़ेगा। सीटों के बंटवारे को लेकर जल्द ही बैठक में फैसला लिया जाएगा।   पंजाब में पिछले कई दिनों से अटकलों का दौर चल रहा है कि लोकसभा चुनाव से पहले दोबारा भारतीय जनता पार्टी व शिरोमणि अकाली दल के बीच गठबंधन होगा। कुछ दिनों तक अकाली दल व बहुजन समाज पार्टी नेताओं के बीच बयानों को लेकर भी गरमा-गरमी जारी रही। इस बीच रविवार को बसपा अध्यक्ष जसबीर सिंह गढ़ी ने कहा कि बसपा सुप्रीमो मायावती के ऐलान का मतलब था कि बसपा एनडीए और इंडिया गठबंधन में शामिल नहीं होगी। पंजाब में सीट शेयरिंग का मामला दोनों दलों का हाईकमान तय करेगा। उन्होंने कहा कि अकाली दल और बसपा दोनों कैडर पर आधारित पार्टियां हैं। आने वाले विधानसभा चुनावों में नतीजे अच्छे रहेंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 January 2024

asam, Batadrava session , Rahul Gandhi

नगांव (असम)। अयोध्या के राम मंदिर में सोमवार को होने वाले प्राण-प्रतिष्ठा समारोह के मद्देनजर बटद्रवा सत्र ने राहुल गांधी से सोमवार को अपनी भारत जोड़ो न्याय यात्रा के साथ सुबह के बजाय दोपहर तीन बजे के बाद आने का आग्रह किया है।  श्रीश्री बटद्रवा थान संचालन समिति ने आज एक आपातकालीन बैठक में यह निर्णय लेने के बाद बटद्रवा के विधायक सिबामोनी बोरा को एक पत्र लिखा है। पत्र में कांग्रेस नेता राहुल गांधी से महापुरुष श्रीमंत शंकरदेव की जन्मस्थली श्रीश्री बटद्रवा थान की अपनी यात्रा पुनर्निर्धारित करने का आग्रह किया गया है। पत्र में कहा गया है कि बटद्रवा थान में राहुल गांधी का स्वागत है, वह कभी भी यहां दर्शन करने आ सकते हैं। लेकिन कल अयोध्या में राम लला की प्राण प्रतिष्ठा के समय राहुल गांधी के यहां आने से तकनीकी दिक्कत आ सकती है। राहुल गांधी से कहा गया है कि वह सुबह के बदले दोपहर तीन बजे के बाद यहां आ सकते हैं। राहुल गांधी की प्रस्तावित यात्रा से 22 जनवरी को सुबह 8 से 9 बजे के बीच निर्धारित की गई थी। इसलिए श्रीश्री बटद्रवा थान संचालन समिति के अध्यक्ष जोगेंद्र नारायण देव महंत ने मौजूदा परिस्थितियों के मद्देनजर सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 January 2024

new delhi, OPD services , Delhi AIIMS

नई दिल्ली। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) ने सोमवार (22 जनवरी) को राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर आधे दिन ओपीडी सेवाएं बंद रखने का अपना आदेश वापस ले लिया है।   एम्स ने रविवार को नया आदेश जारी कर संस्थान के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक और सभी केंद्रों के प्रमुखों को निर्देश दिया है कि सोमवार को आपातकालीन सेवाओं के साथ ही ओपीडी की सेवाएं भी सामान्य रूप से उपलब्ध रहेंगी। एम्स ने शनिवार को आदेश जारी कर राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर ओपीडी और अन्य सेवाएं आधा दिन बंद रखने की घोषणा की थी। इसी तरह 22 जनवरी को दिल्ली स्थित लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज, सुचेता कृपलानी और कलावती सरन अस्पताल में भी ओपीडी, आपातकालीन और अन्य सभी सेवाएं चालू रहेंगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 January 2024

tamilnadu,Prime Minister Modi,Tiruchirappalli

तिरुचिरापल्ली । प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज यहां श्री रंगनाथस्वामी मंदिर में पूजा-अर्चना की। प्रधानमंत्री मोदी आज से तमिलनाडु के दो दिवसीय दौरे पर हैं। प्रधानमंत्री इस अवधि में विभिन्न महत्वपूर्ण मंदिरों के दर्शन करेंगे। इनमें धनुषकोटि में स्थित कोदंड रामस्वामी मंदिर और श्री अरुल्मिगु रामनाथस्वामी मंदिर प्रमुख हैं।   भारतीय जनता पार्टी ने एक्स हैंडल परप प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के श्री रंगनाथस्वामी मंदिर पहुंचने और पूजा-अर्चना करने का फोटो साझा किया है। प्रधानमंत्री श्री रंगनाथस्वामी मंदिर में कम्ब रामायणम के छंदों का पाठ भी सुनेंगे। इस मंदिर में भगवान विष्णु का लेटा हुआ रूप श्री रंगनाथस्वामी है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी दोपहर करीब दो बजे रामेश्वरम पहुंचेंगे और श्री अरुलमिगु रामनाथस्वामी मंदिर में दर्शन और पूजा करेंगे। वह मंदिर में आयोजित 'श्री रामायण पारायण' कार्यक्रम में भी भाग लेंगे। कार्यक्रम में आठ अलग-अलग पारंपरिक मंडलियां संस्कृत, अवधी, कश्मीरी, गुरुमुखी, असमिया,बंगाली, मैथिली और गुजराती रामकथाओं (श्रीराम की अयोध्या वापसी के प्रसंग का वर्णन) का पाठ करेंगी। श्री अरुल्मिगु रामनाथस्वामी मंदिर में प्रधानमंत्री भजन संध्या में भी हिस्सा लेंगे। शाम को मंदिर परिसर में भक्ति गीत गाए जाएंगे। प्रधानमंत्री कार्यालय के अनुसार 21 जनवरी को प्रधानमंत्री मोदी धनुषकोडी के कोदंड रामास्वामी मंदिर में दर्शन-पूजन करेंगे। यह मंदिर श्री कोदंड रामस्वामी को समर्पित है। कोदंड राम नाम का अर्थ धनुर्धारी राम है। ऐसा कहा जाता है कि यहीं पर विभीषण पहली बार भगवान श्रीराम से मिले थे और उनसे शरण मांगी थी। कुछ किंवदंतियां यह भी कहती हैं कि यही वह स्थान है,जहां भगवान श्रीराम ने विभीषण का राज्याभिषेक किया था। धनुषकोडी के पास प्रधानमंत्री अरिचल मुनाई भी जाएंगे। अरिचल मुनाई के बारे में कहा जाता है कि यहीं पर राम सेतु का निर्माण हुआ था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 January 2024

new delhi, PM inaugurates,Boeing

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को कर्नाटक के बेंगलुरु में नए अत्याधुनिक बोइंग इंडिया इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी सेंटर (बीआईईटीसी) परिसर का उद्घाटन किया। 1,600 करोड़ रुपये के निवेश से निर्मित, 43 एकड़ का यह परिसर अमेरिका के बाहर बोइंग का सबसे बड़ा निवेश है। प्रधानमंत्री ने इस अवसर पर जनसमूह को संबोधित करते हुए कहा कि यह नया सेंटर भारत और दुनिया भर में विमानन क्षेत्र को मजबूत करेगा। यह सेंटर नवाचार के केंद्र के रूप में काम करेगा और विमानन में प्रगति को आगे बढ़ाएगा। एक दिन भारत इस सुविधा में भविष्य के विमान डिजाइन करेगा। उन्होंने कहा कि बेंगलुरु एक ऐसा शहर है, जो आकांक्षाओं को नवाचारों और उपलब्धियों से जोड़ता है। बेंगलुरु भारत की तकनीकी क्षमता को वैश्विक मांग से जोड़ता है। बोइंग का यह नया वैश्विक प्रौद्योगिकी परिसर बेंगलुरु की इस पहचान को मजबूत करेगा। मोदी ने कहा कि ये कैंपस 'मेक इन इंडिया, मेक फॉर द वर्ल्ड' के संकल्प को सशक्त करता है। ये कैंपस, भारत की योग्यता पर दुनिया के भरोसे को भी मजबूत करेगा। भारत इस सेंटर में भविष्य के विमान को भी डिजाइन करेगा। उन्होंने कहा कि यह सुविधा वैश्विक तकनीक, अनुसंधान और नवाचार, डिजाइन और मांग को आगे बढ़ाने के लिए भारत की प्रतिबद्धता को दर्शाती है। यह सुविधा मेक इन इंडिया, मेक फॉर द वर्ल्ड के संकल्प को मजबूत करती है। पिछले 10 सालों में भारत के विमानन क्षेत्र में हुए बदलाव का उल्लेख करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि आज भारत अपने नागरिकों की आकांक्षाओं को प्राथमिकता देता है। 2014 में, भारत में लगभग 70 परिचालन हवाई अड्डे थे। आज भारत में 150 से अधिक परिचालन हवाई अड्डे हैं। केंद्र सरकार ने न केवल हवाई अड्डे बनाए हैं बल्कि उनकी दक्षता बढ़ाने पर भी काम किया है। तेजी से बढ़ता विमानन क्षेत्र भारत के विकास और रोजगार सृजन को बढ़ावा देता है। इस बीच प्रधानमंत्री ने पिछले 10 सालों में सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि केंद्र में स्थायी सरकार है तो इस बीच जनसमूह ने तालियां बजाकर मोदी-मोदी के नारे लगाकर प्रधानमंत्री का समर्थन किया। इस पर मोदी ने मंच पर मौजूद कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया से कहा, “सिद्धारमैया जी ऐसा होता रहता है।” मोदी ने कहा, “भारत का पर्यटन क्षेत्र भी काफी तेजी से विकास कर रहा है। नई संभावनाएं बन रही हैं। भारत में इतनी संभावनाएं हैं तो भारत में हमें एयरक्राफ्ट मैन्यूफैक्चरिंग इकोसिस्टम का तेजी से निर्माण करना होगा। भारत में एमएसएमई का एक सशक्त नेटवर्क है। भारत में एक बहुच बड़ा टैलेंट पूल है। भारत में एक स्टेबल सरकार है।” प्रधानमंत्री ने चंद्रयान की सफलता का उल्लेख करते हुए कहा कि आज भारत का चंद्रयान-3 वहां पहुंचा, जहां कोई देश नहीं पहुंच पाया। इस सफलता ने देश के नौजवानों में वैज्ञानिक स्वभाव को एक नई ऊंचाई पर पहुंचा दिया है। उन्होंने कहा कि आज विमानन क्षेत्र से जुड़ा हर हितधारक नए उत्साह से भरा हुआ है। उत्पादन से लेकर सेवा तक हर हितधारक भारत में नई संभावनाएं तलाश रहा है। प्रधानमंत्री ने लाल किले के अपने भाषण को याद करते हुए कहा कि यही समय है, सही समय है। बोइंग और दूसरी अंतरराष्ट्रीय कंपनियों के लिए भी ये सही समय है। ये उनके लिए भारत की तेज ग्रोथ के साथ अपनी ग्रोथ को जोड़ने का समय है। प्रत्येक क्षेत्र में महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने को लेकर प्रधानमंत्री ने कहा कि एविएशन और एयरोस्पेस सेक्टर में भी हम महिलाओं के लिए नए अवसर बनाने में जुटे हैं। चाहे फाइटर पायलट हों या सिविल एविएशन हो, आज भारत महिला पायलट के मामले में लीड कर रहा है। आज भारत के पायलट में से 15 प्रतिशत महिला पायलट हैं। ये ग्लोबल एवरेज से तीन गुना ज्यादा है। उन्होंने कहा कि भारत एसटीईएम शिक्षा का केंद्र है, जिसमें महिलाओं की भागीदारी बहुत अधिक है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 January 2024

dehradoon, World class facilities ,Rajnath Singh

देहरादून। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह शुक्रवार को जोशीमठ के ढाक पहुंचे। रक्षा मंत्री ने यहां से भारत-चीन सीमा को जोड़ने वाले जोशीमठ-मलारी हाईवे पर बनाए गए पुल समेत सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) द्वारा निर्मित देश के विभिन्न जगहों की 35 परियोजनाओं का लोकार्पण किया। रक्षा मंत्री ने जिन परियोजनाओं का उद्घाटन किया, उनमें उत्तराखंड में 03 ब्रिज, जम्मू-कश्मीर में 01 सड़क व 10 ब्रिज, लद्दाख में 03 सड़क व 6 ब्रिज, हिमाचल प्रदेश में 01 ब्रिज, सिक्किम में 02 सड़क, अरूणाचल प्रदेश में 08 ब्रिज तथा मिजोरम में 01 ब्रिज शामिल है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने इस मौके पर आयोजित कार्यक्रम में कहा कि देवभूमि उत्तराखंड में उपस्थित होने पर मुझे बहुत खुशी हो रही है। आज 670 करोड़ की लागत से 35 बीआरओ प्रोजेक्ट को राष्ट्र को समर्पित करना मेरे लिए गर्व और सम्मान का क्षण है। उन्होंने कहा कि बीते कुछ समय से बीआरओ ने इंफ्रास्ट्रक्चर के मामले में जिस क्षमता से कार्य किया है, वह अभूतपूर्व है। रक्षा मंत्री ने कहा कि आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में सीमावर्ती और पहाड़ी क्षेत्रों में विश्व स्तरीय सुविधा बहाल की जा रही हैं। प्रधानमंत्री मोदी की सरकार की सोच अन्य सरकारों से अलग है। पहले की सरकारों के लिए बॉर्डर एरिया अंतिम होता था, लेकिन हमारी सरकार की सोच बॉर्डर एरिया चेहरा है। इसलिए हम सीमाओं पर भी विश्व स्तरीय इंफ्रास्ट्रक्चर बना रहे हैं। आज देश में हर सीमावर्ती इलाकों में सड़कें, सुरंगों और पुलों के माध्यम से कनेक्टिविटी दी जा रही है। इसका सुरक्षा के साथ ही बॉर्डर एरिया पर रह रहे लोगों के विकास और कल्याण से संबंध जुड़ा हुआ है। उन्होंने कहा कि सीमा से जुड़े लोग किसी सिपाही से काम नहीं है यह हमारी सरकार की मान्यता है। उन्होंने कहा कि पहले के समय में सीमावर्ती इलाकों पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया जाता था। उसे समय की सरकार अलग मानसिकता से काम करती थी। उनके हिसाब से मैदानी इलाकों में रहने वाले लोग ही मुख्य धारा के लोग होते थे। अब हमारी सरकार ने पुरानी सोच को बदला है। प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में सरकार संकल्पित होकर सीमावर्ती और पर्वतीय क्षेत्रों के विकास के लिए तेजी से काम कर रही है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार सीमा पर सैनिकों की तैनाती ही नहीं वहां के स्थानीय लोगों की मूलभूत सुविधाओं को लेकर भी काम कर रही है। हम सीमावर्ती इलाकों को बफर जोन में नहीं मेन स्ट्रीम का हिस्सा मानते हैं। सीमावर्ती इलाकों में ही हम अपनी तैनात सेनाओं और वहां के लोगों के लिए बेहतर व्यवस्था उपलब्ध कराएंगे, जो सेना और सुरक्षा दोनों के लिए सहायक हो। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी सीमा के आखिरी छोर तक विकास की परियोजनाओं को ले जाने का काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि देश के विकास सागर से लेकर सीमाओं तक पहुंचे। राजनाथ ने कहा कि हाल ही में सीमावर्ती राज्यों में जिस प्रकार से प्राकृतिक आपदाएं घटित हुई हैं उस पर अध्ययन करने की जरूरत है। हिमालय का विस्तार अन्य राज्यों में भी है लेकिन कुछ राज्यों में घटनाएं घटी हैं जिसे अनदेखी नहीं किया जा सकता है। जलवायु परिवर्तन केवल मौसम से नहीं राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ा हुआ भी विषय है। रक्षा मंत्रालय इसे बहुत गंभीरता से ले रहा है। इस मामले में मित्र राष्ट्रों से भी सहयोग लेने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि बीते कुछ समय से बीआरओ ने जिस तत्परता से इंफ्रास्ट्रक्चर के क्षेत्र में काम किया है वह अभूतपूर्व और प्रशंसनीय है। उन्होंने बताया कि 2023 में 125 प्रोजेक्ट को पूरा कर बीआरओ ने एक रिकॉर्ड बनाया है। प्रत्येक उद्घाटन बीआरओ की प्रतिबद्धता और उनकी मेहनत का प्रतीक बनकर उभरा है। रक्षा मंत्री ने उत्तराखंड सरकार की प्रशंसा करते हुए कहा मुख्यमंत्री धामी ने बीआरओ के हर प्रोजेक्ट में तत्परता के साथ बढ़ चढ़कर साथ काम किया है। धामी के नेतृत्व में राज्य विकास की ऊंचाइयों को छू रहा है। रक्षा मंत्री ने सिल्कयारा सुरंग बचाव अभियान का जिक्र करते हुए कहा कि इस कार्य में बीआरओ महिला कामगारों की विशेष भूमिका रही है। इस कार्य में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रात दिन लगकर जिस तत्परता से कार्य किया, वह प्रशंसनीय है। कार्यक्रम में मौके पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, लेफ्टिनेंट जनरल लद्दाख ब्रिगेडियर बीडी मिश्रा, पौड़ी सांसद तीरथ सिंह रावत, कर्णप्रयाग विधायक अनिल नौटियाल, एडीजी बीआरओ हरेन्द्र सहित अन्य मौजूद रहे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 January 2024

new delhi, ED summons, Lalu Prasad

नई दिल्ली। राष्ट्रीय जनता दल प्रमुख लालू प्रसाद यादव और बिहार के उप-मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने जमीन के बदले रेलवे में नौकरी घोटाला से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में लालू प्रसाद और उनके बेटे तेजस्वी यादव को अपने पटना कार्यालय में पूछताछ के लिए पेश होने को लेकर फिर से समन जारी किया है।   आधिकारिक सूत्रों ने शुक्रवार को दी जानकारी में बताया कि केंद्रीय जांच एजेंसी ने इस महीने के अंत में जमीन के बदले रेलवे में नौकरी के कथित घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले की जांच के मामले में लालू प्रसाद और तेजस्वी यादव को पटना कार्यालय में उपस्थित होने के लिए नया समन जारी किया है। लालू प्रसाद को 29 जनवरी को पेश होने के लिए कहा गया है, जबकि तेजस्वी यादव को 30 जनवरी को बुलाया गया है। जांच एजेंसी की टीम समन देने के लिए लालू प्रसाद यादव की पत्नी और बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के पटना स्थित आधिकारिक आवास पर गई थी। समन के मुताबिक राजद प्रमुख और तेजस्वी यादव को पटना के बैंक रोड स्थित ईडी कार्यालय में उपस्थित होने के लिए कहा गया है। इस मामले में पूछताछ के लिए पूर्व में जारी समन पर दोनों पेश नहीं हुए थे। जमीन के बदले नौकरी घोटाला उस समय का है, जब लालू प्रसाद प्रसाद संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए वन) सरकार में रेल मंत्री थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 January 2024

guwahati, FIR registered , Rahul Gandhi

गुवाहाटी। कांग्रेस सांसद राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा का आज असम में दूसरा दिन है। शुक्रवार सुबह राहुल गांधी ने जोरहाट से अपनी यात्रा पर आगे के लिए रवाना हुए। गुरुवार रात को अपनी यात्रा का रूट बदलने के आरोप में जोरहाट में एक एफआईआर दर्ज हुई है। कांग्रेस सांसद राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा गुरुवार को नगालैंड से चलकर आमगुरी, मरियनी होते हुए जोरहाट पहुंची थी। यहां के रंगदई मैदान पर उन्होंने रात बिताने के बाद शुक्रवार को माजुली की यात्रा पर रवाना हुए। राहुल गांधी ने जोरहाट के निमाती घाट से माजुली तक सजी नौका से यात्रा की। माजुली में राहुल गांधी शुक्रवार को सत्रों के सत्राधिकारों से बातचीत करेंगे और न्याय यात्रा के तहत आम आदमी की समस्याओं काे जानकारी लेंगे। इसी बीच राहुल गांधी की यात्रा को लेकर गुरुवार की रात जोरहाट में एक एफआईआर दर्ज हुई है। उन पर अपनी यात्रा का तय रूट को बदलने का आरोप है। राहुल गांधी की यात्रा में कांग्रेस के राष्ट्रीय नेताओं के अलावा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेन बोरा और कार्यकारी अध्यक्ष राणा गोस्वामी भी साथ हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 January 2024

new delhi, Kejriwal , ED

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल गुरुवार को भी प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के सामने पेश नहीं हुए। केजरीवाल का कहना है कि उन्हें राजनीतिक कारणों से परेशान किया जा रहा है। उन्होंने कोई भ्रष्टाचार नहीं किया है। भाजपा उन्हें लोकसभा चुनाव से पहले जेल भेजने की साजिश रच रही है।   ईडी ने शराब घोटाला मामले में पूछताछ के लिए चौथी बार दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल को आज पेश होने के लिए नोटिस भेजा था। सूत्रों का कहना है कि केजरीवाल ने ईडी के नोटिस का लिखित में जवाब दिया है। इसमें उन्होंने कहा है कि राजनीतिक कारणों से परेशान किया जा रहा है। यह नोटिस भाजपा के दबाव में भेजा गया है। उन्होंने कोई घोटाला नहीं किया है। इसलिए वह ईडी के सामने पेश नहीं होंगे।   उल्लेखनीय है कि केजरीवाल को ईडी ने पेश होने के लिए पहले 02 नवंबर और 21 दिसंबर, 2023 और 03 जनवरी तथा आज (18 जनवरी) को पेश होने के लिए नोटिस दिया था। केजरीवाल का कहना है कि ये सभी नोटिस गैरकानूनी हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 January 2024

varansi, Sealed bathroom , Gyanvapi campus

वाराणसी। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद ज्ञानवापी परिसर स्थित सील वजूखाने की सफाई 20 जनवरी (शनिवार) को होगी। सफाई के लिए सुबह 09 से 11 बजे तक का समय निर्धारित किया गया है। सफाई के दौरान दोनों पक्षों के दो-दो प्रतिनिधि मौजूद रहेंगे। वाराणसी के जिलाधिकारी एस. राजलिंगम ने गुरुवार को पत्रकारों को बताया कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देश को लेकर जिला प्रशासन ने हिंदू और मुस्लिम पक्ष के लोगों से बातचीत की है। इस दौरान तय हुआ कि सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार दोनों पक्षों के प्रतिनिधि सील वजूखाने की सफाई के दौरान मौजूद रहेंगे। कोई भी प्रतिनिधि वजूखाने की जाली के अंदर प्रवेश नहीं करेगा। सिर्फ सफाईकर्मी अंदर प्रवेश कर एहतियात बरतते हुए साफ-सफाई का काम करेंगे। साफ-सफाई के दौरान सुरक्षा के व्यापक प्रंबध रहेंगे। सील वजूखाने में किसी को भी अनधिकृत रूप से प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा। बैठक में हिन्दू पक्ष, प्रतिवादी अंजुमन इंतेजामिया मसाजिद कमेटी के पदाधिकारी और पुलिस अफसर मौजूद रहे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 January 2024

new delhi, Modi

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गुरुवार को कहा कि विकसित भारत संकल्प यात्रा को जनता की मांग पर फरवरी में भी जारी रखा जाएगा। उन्होंने कहा कि विकसित भारत संकल्प यात्रा 'लास्ट माइल डिलीवरी' का सबसे अच्छा उदाहरण है। पिछले साल 15 नवंबर से शुरु हुई विकसित भारत संकल्प यात्रा पहले 26 जनवरी तक चलनी थी।   विकसित भारत संकल्प यात्रा पूरे देश में सरकार की प्रमुख योजनाओं को अंतिम छोर तक पहुंचाने के प्रयासों को सुनिश्चित करने के उद्देश्य से चलाई जा रही है, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि इन योजनाओं का लाभ समयबद्ध तरीके से सभी लक्षित लाभार्थियों तक पहुंचे।   प्रधानमंत्री ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए विकसित भारत संकल्प यात्रा के लाभार्थियों से बातचीत की। इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने जनसमूह को संबोधित करते हुए कहा कि विकसित भारत संकल्प यात्रा में चलने वाला ‘विकास रथ’, ‘विश्वास रथ’ में बदल चुका है, अब लोग इसे ‘गारंटी वाला रथ’ भी कह रहे हैं। उन्होंने कहा कि विकसित भारत संकल्प यात्रा पहले 26 जनवरी तक चलने वाली थी, लेकिन इसको लोगों का इतना समर्थन मिला है और अब लोगों की मांग हैं कि मोदी की गारंटी वाली गाड़ी हमारे गांव में भी आनी चाहिए। इसलिए मोदी की गारंटी वाली गाड़ी को फरवरी में भी चलाएंगे।   उन्होंने कहा कि विकसित भारत संकल्प यात्रा को मिल रहे प्यार और समर्थन के कारण, हमने इस अभियान को फरवरी के बाद भी जारी रखने का फैसला किया है। हमने सबसे पहले 15 नवंबर को भगवान बिरसा मुंडा का आशीर्वाद लेकर यह यात्रा शुरू की थी। महज 2 महीने के अंदर यह यात्रा एक जन आंदोलन बन गई है। इस यात्रा में 15 करोड़ से ज्यादा लोग शामिल हुए हैं। विकसित भारत संकल्प यात्रा 'लास्ट माइल डिलीवरी' का सबसे अच्छा उदाहरण है। प्रधानमंत्री ने कहा, विकसित भारत संकल्प यात्रा के दायरे में 70 से 80 प्रतिशत पंचायतें आ चुकी हैं।     मोदी ने कहा कि पिछले नौ वर्षों में 25 करोड़ से अधिक लोग गरीबी से बाहर आये हैं। उन्होंने कहा कि सरकार पारदर्शी और कुशल शासन प्रदान करके गरीबी को हराने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि पिछले दस वर्षों में चार करोड़ से अधिक लोगों को पक्के घर उपलब्ध कराये गये हैं।   प्रधानमंत्री ने देश के सभी नागरिकों को पोषण और स्वास्थ्य गारंटी प्रदान करने के अपनी सरकार के संकल्प को दोहराया। उन्होंने कहा कि हमारा प्रयास है कि हर किसी को पोषण, स्वास्थ्य और इलाज की गारंटी मिले। हर परिवार को पक्का घर मिले और हर घर में गैस कनेक्शन, पानी, बिजली और शौचालय की सुविधा हो। स्वच्छता का दायरा व्यापक होना चाहिए। हर गली, हर मोहल्ले और हर परिवार को इसमें शामिल किया जाना चाहिए। हर किसी के पास एक बैंक खाता होना चाहिए और स्वरोजगार को आगे बढ़ाने का अवसर होना चाहिए।   प्रधानमंत्री ने कहा कि बीते 9 साल में हमारी कोशिश रही है कि वंचितों को तरजीह दी जाए। हर उस नागरिक को जोड़ने का प्रयास किया जा रहा है जो अब तक विकास की मुख्यधारा से दूर रहा है। हमारी कोशिश ये सुनिश्चित करना है लोगों को बिना किसी परेशानी के उनके घर पर ही योजनाओं का लाभ मिले। विकसित भारत संकल्प यात्रा इसी सोच का विस्तार है।   उन्होंने कहा कि पिछले 10 वर्षों में हमारी सरकार ने पारदर्शिता और पूरी ईमानदारी के साथ प्रयास किये हैं। सरकार गरीबों के लिए लगातार काम कर रही है. 4 करोड़ से ज्यादा परिवारों को पक्के घर मिले। इनमें से 70 फीसदी से ज्यादा घर महिला के नाम पर रजिस्टर्ड हैं। यह एक और उदाहरण है कि भारत में नारी शक्ति कैसे सशक्त हो रही है।   प्रधानमंत्री ने कहा कि आजादी के बाद इतने दशकों तक ट्रांसजेंडर्स को किसी ने नहीं पूछा। ये हमारी सरकार है, जिसने पहली बार ट्रांसजेंडर समाज की मुश्किलों की चिंता की, उनका जीवन आसान बनाने को प्राथमिकता दी। हमारी सरकार ने 2019 में किन्नर समाज को संरक्षण देने वाला कानून बनाया। इससे किन्नर समाज को समाज में सम्मानजनक स्थान मिला और उनके साथ होने वाला भेदभाव कम हुआ।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 January 2024

new delhi, Cabinet approves ,16th Finance Commission

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 16वें वित्त आयोग के लिए संयुक्त सचिव के स्तर पर तीन पदों के सृजन को मंजूरी दे दी है।   प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में गुरुवार को केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 16वें वित्त आयोग के लिए संयुक्त सचिव के स्तर पर तीन पदों, जिनमें संयुक्त सचिव के दो पद और आर्थिक सलाहकार के एक पद के सृजन को मंजूरी दी है, जिसका गठन 31 दिसंबर, 2023 की अधिसूचना द्वारा संविधान के अनुच्छेद 280 के अनुसरण में किया गया था।   नए सृजित पदों को आयोग को अपने कार्यों को पूरा करने में सहायता करने की आवश्यकता है। आयोग में अन्य सभी पद प्रदत्त शक्तियों के अनुरूप पहले ही सृजित किये जा चुके हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 January 2024

asam, Rahul Gandhi, Bharat Jodo Nyay Yatra

शिवसागर (असम)। राहुल गांधी की 'भारत जोड़ो न्याय यात्रा' गुरुवार को असम के शिवसागर जिले में पहुंची। यहां नगालैंड-असम सीमा इलाके में आयोजित कार्यक्रम में राहुल गांधी ने भाजपा पर कई आरोप लगाए। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने आरोप लगाया है कि भाजपा की केंद्र और राज्य सरकारें सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक अन्याय कर रही है। उन्होंने कहा कि इससे पहले वे कन्याकुमारी से कश्मीर तक भारत जोड़ो यात्रा कर चुके हैं। लोगों ने उन्हें सलाह दी कि अब उन्हें पूरब से पश्चिम तक की भी यात्रा करनी चाहिए। इसलिए उन्होंने मणिपुर से नगालैंड, असम होते हुए मुंबई तक की यात्रा शुरू की है। उन्होंने अपने संबोधन में इस यात्रा को सफलतापूर्वक संपन्न करने के लिए नगालैंड तथा मणिपुर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष को धन्यवाद दिया। राहुल गांधी की 'भारत जोड़ो न्याय यात्रा' आज सुबह नौ बजे नगालैंड से चलकर असम पहुंची, जहां सीमा पर पहले से ही मौजूद कांग्रेस के नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने उनके काफिले का स्वागत किया। यह यात्रा आज दिनभर ऊपरी असम में घूमते हुए जोरहाट पहुंचेगी। राहुल गांधी जोरहाट में एक कार्यक्रम को संबोधित करेंगे। आज उनका रात्रि विश्राम जोरहाट में ही होगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 January 2024

new delhi, Mahua Moitra, new eviction notice

नई दिल्ली। तृणमूल कांग्रेस पार्टी (टीएमसी) की नेता महुआ मोइत्रा को नई दिल्ली में सरकार द्वारा आवंटित आवास खाली करने के लिए नया नोटिस मिला है। सरकारी आवास खाली करने के लिए यह नोटिस संपदा निदेशालय की तरफ से तीसरी बार भेजा गया है। बुधवार काे बेदखली का यह नया नोटिस सरकारी आवास की दीवार पर चस्पा दिया गया है। संपदा अधिकारी और संपदा निदेशक (मुकदमेबाजी), संपदा निदेशालय के कार्यालय की ओर से यह नोटिस 16 जनवरी मंगलवार को जारी किया गया है। नोटिस में 17 जनवरी को संपदा निदेशक कार्यालय में हाजिर होने के लिए कहा गया है। उल्लेखनीय है कि 8 दिसंबर को पैसे के बदले सवाल पूछने के मामले में तृणमूल सांसद महुआ मोइत्रा की सदस्यता चल गई थी। उनके खिलाफ लाए गए प्रस्ताव को लोकसभा ने पारित कर दिया था। सदस्यता जाने पर उन्हें एक महीने में सरकारी बंगला खाली करना था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 January 2024

new delhi, Prime Minister , nation

नई दिल्ली/कोच्चि। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को केरल में कोच्चि यात्रा के दौरान 4 हजार करोड़ रुपये से अधिक मूल्य की तीन प्रमुख निर्माण परियोजनाएं राष्ट्र को समर्पित कीं। उन्होंने कहा कि इन परियोजनाओं से देश के दक्षिणी क्षेत्र की प्रगति और विकास में तेजी आएगी। आज उद्घाटन की गई परियोजनाओं में कोचीन शिपयार्ड लिमिटेड (सीएसएल) में न्यू ड्राई डॉक (एनडीडी), सीएसएल की इंटरनेशनल शिप रिपेयर फैसिलिटी (आईएसआरएफ) और पुथुवाइपीन, कोच्चि में इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड के एलपीजी आयात टर्मिनल शामिल हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले दशक में हुए महत्वपूर्ण सुधारों ने बंदरगाहों, शिपिंग और अंतर्देशीय जलमार्ग क्षेत्रों में ‘व्यापार करने में आसानी’ को बढ़ावा दिया है। उन्होंने कहा, “बंदरगाह, नौवहन और अंतर्देशीय जलमार्ग के सेक्टर में ईज ऑफ डूइंग बिजनेस बढ़ाने के लिए पिछले 10 वर्षों में केंद्र सरकार द्वारा अनेक सुधार किए गए हैं। इससे बंदरगाहों में अधिक निवेश आया है और ज्यादा रोजगारों का सृजन हुआ है।” उन्होंने कहा कि आज समर्पित की गई तीनों परियोजनाओं का उद्देश्य भारत के बंदरगाहों, शिपिंग और जलमार्ग क्षेत्र को बढ़ावा देना है। मोदी ने कहा, “आजादी के अमृतकाल में भारत को विकसित राष्ट्र बनाने में देश के हर राज्य की अपनी भूमिका है। भारत जब समृद्ध था, उस समय वैश्विक जीडीपी में हमारी भागीदारी बहुत बड़ी थी, तब हमारी ताकत हमारे पोर्ट्स और पोर्ट सिटी थे। आज जब भारत फिर से ग्लोबल ट्रेड का एक बड़ा केंद्र बन रहा है तो हम फिर से अपनी समुद्री शक्ति को बढ़ाने में जुटे हैं।” उन्होंने कहा कि हम भारत को समुद्री शक्ति बनाने के लिए बड़े बंदरगाहों और जहाज निर्माण के लिए बुनियादी ढांचे के निर्माण पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं। आज जिन विकास परियोजनाओं का उद्घाटन किया गया है, वे भारत के समुद्री क्षेत्र को मजबूत करने में केरल की भूमिका बढ़ाने में मदद करेंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 January 2024

new delhi, Prime Minister ,Guruvayur temple

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी मंगलवार से आंध्र प्रदेश और केरल के दो दिवसीय दौरे पर हैं। प्रधानमंत्री ने बुधवार सुबह केरल के गुरुवायूर मंदिर में पूजा-अर्चना की। उन्होंने मंदिर में करीब आधा घंटे बिताए। प्रधानमंत्री ने एक्स पोस्ट में कहा कि पवित्र गुरुवायूर मंदिर में प्रार्थना की। इस मंदिर की दिव्य ऊर्जा अपार है। मैंने प्रार्थना की कि हर भारतीय खुश और समृद्ध रहे। प्रधानमंत्री ने अपनी चार फोटो भी साझा की हैं। प्रधानमंत्री सुबह 7.30 बजे कोच्चि से हेलीकॉप्टर द्वारा गुरुवायूर के श्रीकृष्ण कॉलेज मैदान पहुंचे। यहां पर उनके स्वागत के लिए सैकड़ों लोग मैदान में उमड़ पड़े। त्रिशूर जिला प्रशासन और भाजपा नेताओं ने प्रधानमंत्री का स्वागत किया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 January 2024

nagaland, Rahul Gandhi, Bharat Jodo Nyay Yatra

  मोकोकचुंग। कांग्रेस सांसद राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा चौथे दिन बुधवार को नगालैंड के मोकोकचुंग पहुंची। रास्ते में राहुल गांधी ने रुक-रुक कर स्थानीय लोगों से मुलाकात की। इस दौरान कई बाइकर्स से भी रुक कर बात की। राहुल गांधी ने मोकोकचुंग की एक जनसभा में राष्ट्रीय और स्थानीय समस्याओं पर चर्चा की। पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव जयराम रमेश ने एक्स पोस्ट में बताया कि राहुल गांधी की यात्रा में लोगों की अपार भीड़ उमड़ रही है। राहुल ने तीसरे दिन मंगलवार को यात्रा की शुरुआत कोहिमा वॉर मेमोरियल पर बलिदानियों को श्रद्धासुमन अर्पित करके की। यह स्मारक द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान कोहिमा की लड़ाई में बलिदान हुए सैनिकों की याद में बनाया गया है। इस युद्ध में 2500 से अधिक सैनिक वीरगति को प्राप्त हुए थे, जिसमें 917 भारतीय भी थे। इन सभी बलिदानियों के नाम यहां अंकित हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 January 2024

new delhi, Former Odisha Chief Minister, joins Congress

नई दिल्ली। ओडिशा के पूर्व मुख्यमंत्री गिरिधर गमांग ने घर वापसी करते हुए बुधवार को कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण कर ली। इस दौरान गमांग के साथ उनकी पत्नी और पूर्व सांसद हेमा गमांग, बेटे शिशिर गमांग और बरगढ़ के पूर्व सांसद संजय भोई ने भी कांग्रेस में वापसी की है।     इन सभी नेताओं को कांग्रेस मुख्यालय में पार्टी की सदस्यता दिलाई गई। इस दौरान ओडिशा कांग्रेस के प्रभारी डॉ अजय कुमार व कांग्रेस के कोषाध्यक्ष अजय माकन ने सभी नेताओं को पार्टी में शामिल कराया। इन नेताओं का पार्टी में स्वागत करते हुए माकन ने कहा कि हमें खुशी है कि आज कांग्रेस पार्टी के परिवार में गिरिधर गमांग, हेमा गमांग , संजय भोई और शिशिर गमांग फिर से शामिल हो रहे हैं। इन नेताओं का ओडिशा के विकास में काफी योगदान रहा है। कांग्रेस में इनकी वापसी से पार्टी की विचारधारा को मजबूती और बल मिलेगा। कांग्रेस पार्टी की तरफ से हम इन सभी का स्वागत करते हैं।     गिरिधर ने कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण करने के बाद कहा कि देश में कांग्रेस ही ऐसी पार्टी है, जो सिद्धांतवादी राजनीति करती है। कांग्रेस ने उन्हें 11 बार टिकट दिया, जो कोई पार्टी नहीं कर सकती है। वह दूसरे दल में रहे लेकिन सम्मान केवल कांग्रेस ही दे सकती है। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने जो कदम उठाया है, वह राजनीतिक नहीं बल्कि संवैधानिक है। हम सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक न्याय की लड़ाई लड़ते रहेंगे। उल्लेखनीय है कि गिरिधर गमांग वर्ष 2015 में कांग्रेस को छोड़कर भाजपा में शामिल हो गए थे। आज उन्होंने पुन: कांग्रेस में वापसी की है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 January 2024

patna, Nitish Kumar, INDIA

पटना/नई दिल्ली। वर्चुअल मोड में शनिवार को विपक्षी दलों के आईएनडीआईए खेमे की बड़ी बैठक हुई। बैठक में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को संयोजक बनाने का प्रस्ताव आया लेकिन नीतीश ने इसे स्वीकार करने से इंकार कर दिया। नीतीश कुमार ने कहा कि कांग्रेस से ही किसी को आईएनडीआईए का संयोजक बनाया जाए। स्टालिन ने सीएम नीतीश को संयोजक बनाने का प्रस्ताव लाया लेकिन उन्होंने इसे स्वीकार करने से इंकार कर दिया। गठबंधन की बैठक में नीतीश के साथ शामिल हुए मंत्री संजय झा ने बैठक के बाद कहा कि नीतीश कुमार को संयोजक बनाने पर चर्चा हुई लेकिन उन्होंने इसे स्वीकार नहीं किया है। हमारा मानना है कि कांग्रेस से ही संयोजक बनाया जाना चाहिए।   नीतीश ने गठबंधन के नेताओं के साथ मीटिंग में कहा कि उनका किसी पद में दिलचस्पी नहीं है। जमीन पर गठबंधन का काम बढ़ता रहे यहीं उनकी चाहत है। संयोजक बनाने के लिए ममता अखिलेश से भी सलाह ली जाएगी। बैठक में नीतीश के संयोजक बनने से इंकार के बाद कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे को कन्वेनर बनाने पर चर्चा चल रही है।   बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, राहुल गांधी, राजद सुप्रीमो लालू यादव, उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव, एनसीपी नेता शरद पवार सहित गठबंधन के घटक दलों के कई नेता इस बैठक में शामिल थे। पहली बार ऑनलाइन जुड़े तमाम नेताओं में सीट बंटवारे, संयोजक जैसे मुद्दों पर मुख्य रूप से चर्चा हुई। बैठक में तृणमूल कांग्रेस के अलावा सभी पार्टियां शामिल रहीं। कहा जा रहा है कि सीटों के बंटवारे को लेकर ममता बनर्जी और कांग्रेस में कुछ मतभेद है। इसी कारण ममता की पार्टी आज की बैठक से किनारा कर लिया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 January 2024

kolkata, BJP cornered ,Mamata government

कोलकाता। पश्चिम बंगाल के पुरुलिया जिले में उत्तर प्रदेश से गंगासागर जा रहे साधुओं पर हमले पर भारतीय जनता पार्टी ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। साधुओं को भीड़ द्वारा पीटे जाने का वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल होने कुछ बाद भाजपा आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर लिखा, “ममता बनर्जी की गहरी चुप्पी शर्मशार करने वाली है। क्या ये साधु आपकी मान्यता के योग्य नहीं हैं? अत्याचार जवाबदेही की मांग करता है।”   सोशल मीडिया पर 30 सेकेंड का फुटेज वायरल हो रहा है जिसमें तीन साधुओं के समूह को भीड़ की ओर से निर्वस्त्र करते और उन पर हमला करते देखा जा सकता है। वे जान की भीख मांग रहे हैं लेकिन भीड़ उन्हें पीट रही है।     अमित मालवीय ने इस घटना की तुलना साल 2020 में महाराष्ट्र के पालघर मॉब लिंचिंग से करते हुए कहा, “पश्चिम बंगाल के पुरुलिया से चौंका देने वाली घटना सामने आई है। मकर संक्रांति के लिए गंगासागर जा रहे साधुओं को सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल से जुड़े अपराधियों ने निर्वस्त्र कर पीटा।” अमित मालवीय ने कहा, बंगाल में हिंदू होना अपराध है। भाजपा नेता ने कहा, “ममता बनर्जी के शासन में शाहजहां शेख जैसे आतंकवादी को राज्य संरक्षण मिलता है और साधुओं को पीट-पीटकर मार डाला जाता है।”   बंगाल भाजपा अध्यक्ष सुकांत मजूमदार ने भी हमले को लेकर ममता बनर्जी सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा, “पुरुलिया से चौंकाने वाली घटना। गंगासागर जा रहे साधुओं को तृणमूल से जुड़े अपराधियों ने निर्वस्त्र कर पीटा, जो पालघर त्रासदी की तरह है। ममता बनर्जी के शासन में, शाहजहां जैसे आतंकवादी को राज्य संरक्षण मिलता है, जबकि साधुओं को हिंसा का सामना करना पड़ता है। पश्चिम बंगाल में हिंदू होना अपराध है।” केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा, "आखिरकार ये वातावरण क्यों है। रामजन्म भूमि का शिलान्यास हो तो बंगाल में कर्फ्यू लगा दिया। साधुओं की हत्या का प्रयास किया जाता है। तुष्टिकरण की राजनीति बंगाल को कहां लेकर जा रही है। आखिर ये हिन्दू विरोधी सोच क्यों?

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 January 2024

new delhi, ED summons , Arvind Kejriwal

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में शराब घोटाले की जांच कर रहे प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को चौथी बार समन भेजा है। अब तक किसी भी समन में केजरीवाल पेश नहीं हुए हैं। उन्होंने अपनी लीगल टीम से समन का जवाब भेजा था। अब ईडी ने नया समन भेजकर 18 जनवरी को पूछताछ के लिए बुलाया है। मुख्यमंत्री कार्यालय के अनुसार, केजरीवाल 18, 19 और 20 जनवरी को गोवा दौरे पर रहेंगे। कहा जा रहा है कि मुख्यमंत्री संभवतः इस बार भी ईडी मुख्यालय नहीं जाएंगे। इससे पहले 11 और 12 जनवरी को केजरीवाल का गोवा दौरा प्रस्तावित था। प्रस्तावित दौरा गणतंत्र दिवस कार्यक्रम की तैयारियों से जुड़ी मीटिंग के कारण निरस्त हो गया था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 January 2024

new delhi, Wreckage , missing Air Force

नई दिल्ली। बंगाल की खाड़ी के ऊपर से आठ साल पहले गायब हुए भारतीय वायु सेना के एएन-32 विमान का मलबा चेन्नई से लगभग 310 किमी दूर समुद्र तल से लगभग 3400 मीटर नीचे मिला है। इस मलबे को राष्ट्रीय महासागर प्रौद्योगिकी संस्थान ने एक उन्नत एयूवी का उपयोग करते हुए खोजा है। यह खोज एवं बचाव अभियान समुद्र में किसी लापता विमान की तलाश में भारत का अब तक का सबसे बड़ा खोज अभियान बन गया है।   दरअसल, भारतीय वायु सेना के एंटोनोव एएन-32 ट्विन इंजन टर्बोप्रोप परिवहन विमान ने 22 जुलाई, 2016 को स्थानीय समयानुसार सुबह 08:30 बजे चेन्नई के तांबरम वायु सेना स्टेशन से उड़ान भरी। स्थानीय समयानुसार 11:45 बजे के आसपास इसे पोर्ट ब्लेयर में भारतीय नौसैनिक हवाई स्टेशन आईएनएस उत्क्रोश पर उतरना था। चेन्नई से 280 किलोमीटर (170 मील) पूर्व में सुबह 9:12 बजे विमान से रडार संपर्क टूट गया था। उस समय यह विमान बंगाल की खाड़ी के पश्चिमी तट पर चेन्नई शहर में तांबरम वायु सेना स्टेशन से अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में पोर्ट ब्लेयर के रास्ते में था। बंगाल की खाड़ी के ऊपर उड़ान भरते समय चेन्नई से लगभग 150 समुद्री मील पूर्व बंगाल की खाड़ी में गायब हो गया था। उस समय विमान पर सवार 29 लोगों में चालक दल के छह सदस्य, 11 भारतीय वायु सेना के जवान, दो भारतीय सेना के जवान, भारतीय नौसेना और भारतीय तटरक्षक बल से एक-एक और नौसेना आयुध डिपो (एनएडी) के साथ काम करने वाले आठ रक्षा नागरिक थे। विमान के लापता होने के तीसरे दिन भारतीय नौसेना और भारतीय तटरक्षक बल ने एक पनडुब्बी, 16 सतही जहाजों और छह विमानों का उपयोग करके बड़ा खोज और बचाव अभियान चलाया। एक सप्ताह बाद आधिकारिक तौर पर पुष्टि की गई कि विमान में कोई अंडरवाटर लोकेटर बीकन (यूएलबी) नहीं बल्कि इसमें दो आपातकालीन लोकेटर ट्रांसमीटर (ईएलटी) थे। आख़िरकार 15 सितंबर, 2016 को खोज और बचाव अभियान बंद कर दिया गया। साथ ही विमान में सवार सभी 29 लोगों को मृत मानकर उनके परिवारों को सूचित कर दिया गया। भारतीय वायु सेना के एएन-32 विमान का मलबा आठ साल बाद मिलने पर अब यह खोज एवं बचाव अभियान समुद्र में किसी लापता विमान की तलाश में भारत का अब तक का सबसे बड़ा खोज अभियान बन गया है। मिनिस्ट्री ऑफ अर्थ साइंस के अंतर्गत काम करने वाले राष्ट्रीय महासागर प्रौद्योगिकी संस्थान ने एक उन्नत एयूवी का उपयोग करते हुए चेन्नई से लगभग 310 किमी. दूर समुद्र तल से लगभग 3400 मीटर नीचे विमान का मलबा खोजने का कारनामा कर दिखाया है। संस्थान के वैज्ञानिकों ने एएन-32 विमान के लापता होने वाली जगह पर गहरे समुद्र में एक ऑटोनोमस अंडरवाटर वाहन (एयूवी) को तैनात किया। यह विशेष तकनीकी क्षमताओं से लैस वाहन है। मल्टी बीम सोनार, सिंथेटिक एपर्चर सोनार और उच्च रिज़ॉल्यूशन फोटोग्राफी सहित कई पेलोड का उपयोग करके समंदर के अंदर 3400 मीटर की गहराई पर दुर्घटनाग्रस्त विमान के मलबे का पता लगाया गया। खोजे गए मलबे की तस्वीरों की जांच में इसे एएन-32 विमान के अनुरूप पाया है। तमाम विश्लेषण के बाद यह पता चला है कि यह मलबा दुर्घटनाग्रस्त विमान एएन-32 का ही है, क्योंकि उस इलाके में किसी और विमान के दुर्घटनाग्रस्त या लापता होने की कोई रिपोर्ट नहीं है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 January 2024

mumbai, Prime Minister Modi ,

मुंबई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को देश के सबसे लंबे समुद्री पुल अटल बिहारी वाजपेई शिवड़ी-न्हावा शेवा नामक अटल सेतु का उद्घाटन किया। इस पुल के निर्माण से मुंबई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे और नवी मुंबई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे को कनेक्टिविटी आसान हो जाएगी।   देश के सबसे बड़े समुद्री पुल मुंबई ट्रांसहार्बर लिंक (एमटीएचएल) परियोजना का शिलान्यास प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मोदी ने दिसंबर 2016 में किया था। पुल का निर्माण 17,840 करोड़ रुपये की लागत से किया गया है। प्रधानमंत्री ने आज इस पुल को आम जनता के लिए खोल दिया। यह पुल लगभग 21.8 किमी लंबा और 6-लेन वाला है। यह पुल 16.5 किमी. समुद्र के ऊपर और करीब 5.5 किमी जमीन पर बना है। अब मुंबई से पुणे, गोवा और दक्षिण भारत की यात्रा में लगने वाला समय कम हो जायेगा। इस समुद्री पुल से मुंबई और नवी मुंबई की दूरी सिर्फ 20 मिनट में तय हो सकेगी। अभी दो घंटे का वक्त लगता था।   अटल सेतु के निर्माण में करीब 177,903 मीट्रिक टन स्टील और 504,253 मीट्रिक टन सीमेंट का इस्तेमाल किया गया है। लगभग 17,840 करोड़ रुपये की लागत से बनाया गया है। इस पुल पर प्रतिदिन लगभग 70,000 वाहन अधिकतम 100 किमी प्रति घंटे की स्पीड से चलेंगे और यह 100 वर्ष चलता रहेगा। मानसून के दौरान उच्च-वेग वाली हवाओं का सामना करने के लिए विशेष रूप से लाइटिंग पोल डिजाइन किए गए हैं। बिजली से होने वाली संभावित क्षति से बचाने के लिए लाइटिंग प्रोटेक्शन सिस्टम भी लगाया गया है। शिवड़ी से 8.5 किमी लंबा नॉइज बैरियर स्थापित किया गया है, क्योंकि पुल का हिस्सा फ्लेमिंगो प्रोटेक्टेड एरिया और भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र से होकर गुजरता है। इस पुल को पूरा करने के लिए कुल 5,403 मजदूरों और इंजीनियरों ने प्रतिदिन काम किया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 January 2024

new delhi, North India ,shivered with cold

नई दिल्ली। इस समय सारा उत्तर भारत ठंड से कांप रहा है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली-एनसीआर में भी कड़ाके की ठंड और कोहरे का प्रकोप है। आगामी पांच दिनों तक राहत मिलने के कोई आसार नहीं हैं। यह आकलन भारत मौसम विज्ञान विभाग का है।   दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, राजस्थान समेत कई राज्यों में कड़ाके की ठंड के साथ कोहरा लोगों की परेशानी बढ़ा रहा है। शुक्रवार को घने कोहरे के कारण देश के विभिन्न हिस्सों से दिल्ली आने वाली 23 ट्रेनें देरी से चल रही हैं। कोहरे के कारण सुबह दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा क्षेत्र में दृश्यता का स्तर शून्य हो गया। हालांकि, प्रतिकूल परिस्थितियों का उड़ान संचालन पर कोई बड़ा प्रभाव नहीं पड़ा।   भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, शुक्रवार को राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली का न्यूनतम तापमान सामान्य से नीचे 5.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। विभाग के अनुसार, 13 से 15 जनवरी के बीच पंजाब के कुछ हिस्सों और हरियाणा, चंडीगढ़ के अलग-अलग इलाकों में सुबह कुछ घंटों के लिए घने से बहुत घने कोहरे की स्थिति बनी रहने की संभावना है। मध्य और पूर्वी भारत के कई क्षेत्रों में अगले दो दिनों में न्यूनतम तापमान में 2-3 डिग्री सेल्सियस गिरावट आने की संभावना है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 January 2024

new delhi, Prime Minister Modi ,special ritual

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भगवान श्रीराम की जन्मभूमि अयोध्याधाम जाने से पहले आज से विशेष अनुष्ठान पर हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने एक्स हैंडल पर यह जानकारी कुछ समय पहले देश- दुनिया के साथ साझा की।   प्रधानमंत्री मोदी ने लिखा, ''अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा में केवल 11 दिन ही बचे हैं। मेरा सौभाग्य है कि मैं भी इस पुण्य अवसर का साक्षी बनूंगा। प्रभु ने मुझे प्राण प्रतिष्ठा के दौरान सभी भारतवासियों का प्रतिनिधित्व करने का निमित्त बनाया है। ''   उन्होंने लिखा है, ''इसे ध्यान में रखते हुए मैं आज से 11 दिन का विशेष अनुष्ठान आरंभ कर रहा हूं। मैं आप सभी जनता-जनार्दन से आशीर्वाद का आकांक्षी हूं। इस समय, अपनी भावनाओं को शब्दों में कह पाना बहुत मुश्किल है, लेकिन मैंने अपनी तरफ से एक प्रयास किया है।''

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 January 2024

new delhi, India is growing, Prime Minister

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को वाइब्रेंट गुजरात ग्लोबल समिट में कहा कि तेजी से बदलती विश्व व्यवस्था में भारत विश्व मित्र के रूप में आगे बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि दुनिया भारत को स्थिरता के एक महत्वपूर्ण स्तंभ और वैश्विक अर्थव्यवस्था में विकास के इंजन के रूप में देखती है।   गांधीनगर के महात्मा मंदिर में वाइब्रेंट गुजरात ग्लोबल समिट 2024 के 10वें संस्करण के उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि हमने अगले 25 वर्षों में भारत को एक विकसित देश बनाने का लक्ष्य रखा है। उन्होंने कहा कि सभी प्रमुख रेटिंग एजेंसियों की राय है कि भारत अगले कुछ वर्षों में दुनिया की तीन सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में से एक होगा। प्रधानमंत्री ने कहा, “आज भारत दुनिया की पांचवी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है जबकि 10 साल पहले भारत 11वें स्थान पर था। आज दुनिया की हर प्रमुख रेटिंग एजेंसी का अनुमान है कि भारत अगले कुछ वर्षों में दुनिया की टॉप 3 इकोनॉमी में जाएगा। एक ऐसे समय में जब विश्व अनेक अनिश्चितताओं से घिरा हुआ है। तब भारत दुनिया में विश्वास की एक नई किरण बनकर उभरा है।”   उन्होंने आगे कहा, “आज तेजी से बदलते हुए वर्ल्ड आर्डर में भारत विश्वमित्र की भूमिका में आगे बढ़ रहा है। आज भारत ने विश्व को ये भरोसा दिया है कि हम साझा लक्ष्य तय कर सकते हैं, अपने लक्ष्य प्राप्त कर सकते हैं। विश्व कल्याण के लिए भारत की प्रतिबद्धता, निष्ठा, प्रयास और भारत का परिश्रम आज की दुनिया को ज्यादा सुरक्षित और समृद्ध बना रहा है।”   प्रधानमंत्री ने कहा कि वाइब्रेंट गुजरात ग्लोबल समिट ने निवेश आकर्षित करने और राज्य के विकास को गति देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। उन्होंने कहा कि वाइब्रेंट गुजरात समिट आर्थिक विकास और निवेश का एक वैश्विक मंच बन गया है। उन्होंने कहा, “हाल ही में भारत ने आजादी के 75 साल पूरे होने का जश्न मनाया। अब भारत अगले 25 साल की तैयारी कर रहा है। हमारा लक्ष्य आजादी के 100 साल पूरे होने तक भारत को एक विकसित राष्ट्र बनाना है। अगले 25 साल भारत के लिए 'अमृतकाल' होने वाले हैं। यह नये संकल्पों का समय है।”   प्रधानमंत्री मोदी ने भारत-यूएई संबंधों में तेज वृद्धि के लिए यूएई के राष्ट्रपति शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान को श्रेय दिया। उन्होंने कहा कि भारत और यूएई ने फूड पार्क के विकास, नवीकरणीय ऊर्जा में सहयोग और नवीन स्वास्थ्य देखभाल में निवेश के लिए कई समझौतों पर हस्ताक्षर किए हैं। भारत के बंदरगाह बुनियादी ढांचे के लिए यूएई की कंपनियां अरबों डॉलर के निवेश पर सहमत हुई हैं। भारत और यूएई अपने रिश्ते को नई ऊंचाइयों पर ले गए हैं।   उन्होंने कहा कि दुनिया भारत को स्थिरता के एक महत्वपूर्ण स्तंभ के रूप में देखती है। एक मित्र जिस पर भरोसा किया जा सकता है, एक भागीदार जो लोगों के केंद्रित विकास में विश्वास करता है, एक आवाज जो वैश्विक भलाई में विश्वास करती है, और वैश्विक दक्षिण की एक आवाज के रूप में देखती है।   भारत की अध्यक्षता में गत वर्ष सितंबर माह में नई दिल्ली में आयोजित जी-20 सम्मेलन को याद करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि यह भारत के लिए गर्व का क्षण था, क्योंकि भारत की अध्यक्षता के दौरान अफ्रीकी संघ जी-20 का स्थायी सदस्य बन गया।   इससे पहले वाइब्रेंट गुजरात ग्लोबल समिट में हिस्सा लेने वाले वैश्विक व्यापार जगत के नेताओं ने प्रधानमंत्री के दृष्टिकोण की सराहना की। उल्लेखनीय है कि इस वर्ष के शिखर सम्मेलन का विषय 'भविष्य का प्रवेश द्वार' है और इसमें 34 भागीदार देशों और 16 भागीदार संगठनों की भागीदारी शामिल है। शिखर सम्मेलन का उपयोग उत्तर-पूर्वी क्षेत्र के विकास मंत्रालय द्वारा उत्तर-पूर्वी क्षेत्रों में निवेश के अवसरों को प्रदर्शित करने के लिए एक मंच के रूप में भी किया जा रहा है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 January 2024

new delhi, Congress , Kharge

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि जनता के बीच रहना, उनके मुद्दों को उठाना व उनका भरोसा जीतना कांग्रेस के लिए जरूरी है।   खड़गे ने बुधवार को पार्टी मुख्यालय में अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के विभिन्न विभागों व अग्रिम संगठनों से चर्चा के दौरान कहा कि आम चुनाव में हम वहां सफल रहे, जहां हमने जनता के बीच काम किया। हालांकि हम वहां फेल रहे, जहां हमने केवल जनसभाएं कीं। अगर हम जनता के साथ नहीं घुले मिले, उनके बीच काम न करें तो हम उसका भरोसा जीत लेने की आशा नहीं कर सकते हैं। ऐसे में कांग्रेस को जनता के बीच रहना ही होगा। खड़गे ने कहा कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी भारत जोड़ो यात्रा के बाद अब भारत जोड़ो न्याय यात्रा पर निकलने वाले हैं। यह यात्रा ऐतिहासिक होगी। राहुल गांधी लगातार देश की जनता से जुड़ रहे हैं। उनसे संवाद कर रहे हैं और हमें मिलकर जनता के मुद्दों का समाधान निकालना है। खड़गे ने कहा कि कांग्रेस की वरिष्ठ नेता सोनिया गांधी के नेतृत्व में 2004 और 2009 में लगातार दो बार हम सब मिल कर भाजपा को पराजित कर चुके हैं। बस हमें अपनी ताकत को पहचान कर, अपने विचारों पर एक होकर कायम रहना है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 January 2024

hydrabad, Three bogies , Charminar Express derailed

हैदराबाद । चेन्नई से चल कर हैदराबाद पहुंचने वाली चारमीनार एक्सप्रेस की तीन बोगियां बुधवार को पटरी से उतर गई। जिसमें छह लोगों को मामूली चोट आई है। हादसा नामपल्ली रेलवे स्टेशन के पास बुधवार सुबह करीब 10 बजे हुआ। चेन्नई से कल देर शाम रवाना हुई ट्रेन सीधे प्लेटफॉर्म नंबर 5 पर पहुंची और डेड एंड दीवार से जा टकराई। जिससे ट्रेन के तीन डिब्बे पटरी से उतर गए। ट्रेन से उतरने की तैयारी कर रहे दरवाजे पर खड़े कुछ यात्री झटके की वजह से गिर कर चोटिल हो गए। एस2, एस3, एस6 बोगियां आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हुई हैं। ट्रेन के धीरे-धीरे स्टेशन पर रुकने से बड़ा हादसा टल गया। आशंका जताई जा रही है कि लोको पायलट की गलती से यह हादसा हुआ। घायल यात्रियों को इलाज के लिए लालागुडा के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 January 2024

amroha,  family slept, fireplace

अमरोहा। उत्तर प्रदेश में जनपद अमरोहा के सैदनगली थाना क्षेत्र में पड़ रही कड़ाके की सर्दी से बचने के लिए तसले में आग जलाकर एक परिवार कमरे में सो गया। अगले दिन परिवार के पांच लोगों की दम घुटने के कारण मौत हो गई और दो लोगों की हालत नाजुक है।   गांव अल्लीपुर भूड़ उर्फ ढक्का मोड़ निवासी रहीसुद्दीन ट्रक चलाकर परिवार का भरण पोषण करता है। उसके परिवार में पत्नी हुस्नजहां, उसकी की बेटी सोनम, बड़ा बेटा जैद, छोटा बेटा माहिर हैं। धनौरा निवासी साढ़ू आस मोहम्मद ने बताया कि कुछ दिन पहले पत्नी अपनी बेटी कशिश के साथ रहीसुद्दीन के यहां गयी थी। ट्रक चालक रहीसुद्दीन का साला सिहाली जागीर निवासी रियासत, उसकी बेटी महक भी आये हुए थे। जबकि ट्रक चालक रईसुद्दीन चार दिन पूर्व ट्रक चलाने काशीपुर गया था। इस बीच मंगलवार की रात कड़ाके की सर्दी से बचने के लिए परिवार के लोगों ने कमरे में अंगीठी जलाकर सो गये। बुधवार को चालक ने हालचाल लेने के लिए पत्नी को फोन मिलाया। कई बार फोन करने पर जब कॉल नहीं उठी तो उसने अपने छोटे भाई गबरू को फोन करके घर का हालचाल लेने के लिए भेजा। देवर जब घर पहुंचा तो दरवाजा खटखटाया, लेकिन भीतर से कोई आवाज नहीं आयी है। इतने में आसपास के लोगों भीड़ जमा हो गई। गबरू ने मोहल्ले के लोगों के साथ छत के रास्ते से कमरे में दाखिल हुआ। उसने देखा कि सभी बेहोशी हालत में पड़े हुए थे और कमरे में धुआ भरा हुआ था। इसकी सूचना पुलिस को दी गई। आनन-फानन में सभी को इलाज के लिए अस्पताल पहुंचाया गया, जहां डॉक्टरों ने रहीसुद्दीन की पत्नी हुस्नजहां और साला रियासत की हालत गंभीर बताया है। परिवार के पांच लोगों को मृत घोषित कर दिया है। घटना की जानकारी मिलते ही जिलाधिकारी राजेश कुमार त्यागी और पुलिस अधीक्षक कुंवर अनुपम सिंह मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने फोरेंसिक टीम के साथ जिस कमरे में तसले में कोयला जलाया गया था, उस स्थान का बारीकी से निरीक्षण किया। एसपी के मुताबिक यह अंदाजा लगाया जा रहा है कि सोते-सोते परिवार के लोगों का दम घुटा है। अगर वह जागते हुए होते तो जरूर घर से बाहर भागने की कोशिश करते हैं। फिलहाल ये घटना सोमवार की रात की है। पूरा परिवार मंगलवार को दिनभर कमरे में पड़ा रहा। इसकी भनक पड़ोसियों को भी नहीं लगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 January 2024

bangluru, Karnataka Governor ,Thawarchand Gehlot

बेंगलुरू। देश में बढ़ते कोरोना वायरस के मामलों के बीच कर्नाटक के राज्यपाल थावरचंद गहलोत भी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। वह राजभवन में क्वारंटाइन हो गए हैं। राजभवन की तरफ से जारी जानकारी के मुताबिक "कर्नाटक के राज्यपाल थावरचंद गहलोत का कोविड-19 परीक्षण सकारात्मक आया है। फिलहाल उन्हें उनके आवास पर ही क्वारंटाइन कर दिया गया है।" गौरतलब है कि देश में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना वायरस संक्रमण के 475 नए मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही कोरोना के उपचाराधीन मरीजों की संख्या बढ़कर 3,919 हो गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मंगलवार सुबह 08 बजे के ताजा आंकड़ों के मुताबिक इस दौरान छह संक्रमितों की मौत हुई है, जिनमें कर्नाटक के तीन, छत्तीसगढ़ के दो और असम का एक मरीज है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 January 2024

mumbai, Income Tax Department , MP Rajan Vichare

मुंबई। शिवसेना (यूबीटी) पार्टी के सांसद राजन विचारे के घर पर आयकर विभाग की टीम मंगलवार को सुबह छापा मारा है। इस छापेमारी का कारण अभी तक पता नहीं चल सका है। आयकर विभाग की टीम कई कारोबारियों को विचारे के घर पर बुलाकर दोनों से आमने-सामने बैठाकर वित्तीय हेराफेरी के बारे में पूछताछ कर रही है। खबर लिखे जाने तक आयकर विभाग की कार्रवाई चल रही थी। जानकारी के अनुसार मंगलवार सुबह ही आयकर विभाग की एक टीम सांसद राजन विचारे के ठाणे में हीरानंदानी स्थित घर पहुंची। टीम ने घर के सभी सदस्यों के मोबाइल जब्त कर लिया। जानकारी के अनुसार आयकर की एक टीम ने ठाणे में एक और घर पर औरन विचारे के पुराने घर के ऑफिस पर भी छापा मारा है। आयकर विभाग के अधिकारियों ने विचारे से जुड़े कुछ कारोबारियों को भी जांच के लिए विचारे के घर पर बुलाया है। इन सभी से जुड़े कुछ दफ्तरों पर भी छापेमारी की जारी है। विचारे के यहां इस कार्रवाई को शिवसेना के लिए सबसे बड़ा झटका माना जा रहा है। आज सुबह ही ईडी ने ठाकरे गुट के विधायक रवींद्र वायकर के घर पर छापा मारा। इतना ही नहीं एंटी करप्सन ब्यूरो (एसीबी) ने ठाकरे गुट के एक और विधायक राजन सालवी को बुधवार को वित्तीय अनियमितता मामले में पूछताछ के लिए बुलाया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 January 2024

new delhi, India summoned , High Commissioner of Maldives

नई दिल्ली। भारत ने मालदीव के मंत्रियों के प्रधानमंत्री नरेंन्द्र मोदी को लेकर की गई अशोभनीय टिप्पणी को गंभीरता से लिया है। भारत के विदेश मंत्रालय ने मालदीव के उच्चायुक्त को तलब किया है। मालदीव के उच्चायुक्त इब्राहिम शाहीब दिल्ली के साउथ ब्लॉक में विदेश मंत्रालय पहुंचे। भारत ने प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ मालदीव के मंत्रियों की अशोभनीय टिप्पणियों पर सख्त नाराजगी जताई।     उल्लेखनीय है कि मालदीव की महिला मंत्री मरियम शिउना ने सबसे पहले प्रधानमंत्री मोदी को लेकर सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक टिप्पणी की। इसके बाद यह टिप्पणी वायरल हो गई। इस मुद्दे को भारत ने मालदीव की मोहम्मद मुइज्जू सरकार के सामने उठाया। माले में भारतीय उच्चायुक्त ने अशोभनीय टिप्पणी पर कड़ी आपत्ति जताई। इसके बाद तीन मंत्रियों के खिलाफ कार्रवाई की गई।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  8 January 2024

new delhi,Notice to ED ,Sanjay Singh

नई दिल्ली। दिल्ली हाई कोर्ट ने दिल्ली आबकारी घोटाला मामले में गिरफ्तार आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सदस्य संजय सिंह की जमानत याचिका पर आज सुनवाई की। हाई कोर्ट ने इस संबंध में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को नोटिस जारी किया है। जस्टिस स्वर्णकांता शर्मा की बेंच ने जमानत याचिका पर अगली सुनवाई 29 जनवरी को करने का आदेश दिया। संजय सिंह ने ट्रायल कोर्ट के जमानत याचिका खारिज करने के आदेश को हाई कोर्ट में चुनौती दी है। राऊज एवेन्यू कोर्ट ने 22 दिसंबर, 2023 को उनकी जमानत जमानत याचिका को खारिज कर दिया था। राऊज एवेन्यू कोर्ट ने कहा था कि जो तथ्य रिकॉर्ड पर रखे गए हैं, वह यह मानने के लिए पर्याप्त है कि संजय सिंह मनी लॉन्ड्रिंग के दोषी हैं।   उल्लेखनीय है कि ईडी ने संजय सिंह को चार अक्टूबर को उनके सरकारी आवास पर पूछताछ के बाद गिरफ्तार किया था। राऊज एवेन्यू कोर्ट ने संजय सिंह को राज्यसभा सदस्य के रूप में नामांकन दाखिल करने के लिए सशरीर दफ्तर जाने की अनुमति दी है। संजय सिंह का राज्यसभा सदस्य के रूप में कार्यकाल खत्म हो रहा है। नामांकन दाखिल करने की अंतिम तिथि नौ जनवरी है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  8 January 2024

lucknow, Akhilesh Yadav ,Mayawati

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने रविवार को समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि बसपा पर अनर्गल तंज कसने से पहले उन्हें अपने गिरेबान में भी झांक लेना चाहिए। मायावती ने सोशल मीडिया प्लेटफार्म एक्स पर कहा कि अखिलेश यादव और उनकी सरकार में खासकर दलित-विरोधी आदतें और नीतियों एवं कार्यशैली रही हैं। बसपा पर तंज कसने से पहले उन्हें अपने गिरेबान में भी झांंक कर जरूर देख लेना चाहिए कि उनका दामन भाजपा को बढ़ाने व उससे मेलजोल के मामले में कितना दागदार है। पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने कहा कि तत्कालीन सपा प्रमुख मुलायम सिंह द्वारा भाजपा को संसदीय चुनाव में विजय का आशीर्वाद दिए जाने को कौन भुला सकता है। फिर भाजपा सरकार बनने पर उनके नेतृत्व से सपा नेतृत्व का मिलना-जुलना जनता कैसे भुला सकती है। मायावती ने कहा कि सपा यदि साम्प्रदायिक ताकतों से लडे़ तो उचित होगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 January 2024

kolkata, BSF increased patrolling , Bangladesh

कोलकाता। पड़ोसी मुल्क बांग्लादेश में चुनावी हिंसा के मद्देनजर भारत-बांग्लादेश अंतरराष्ट्रीय सीमा पर सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने गश्त बढ़ा दी है। बांग्लादेश से लगती सीमा पर सुरक्षा कड़ी करने के केंद्रीय गृह मंत्रालय के निर्देश के बाद यह कदम उठाया गया है। बीएसएफ के दक्षिण बंगाल फ्रंटियर के एक वरिष्ठ अधिकारी ने रविवार को बताया कि भारत और बांग्लादेश सीमा पर तैनात बीएसएफ टीम को अधिक सतर्क रहने को कहा गया है। सीमावर्ती क्षेत्रों में गश्त भी बढ़ाई गई है ताकि किसी भी तरह के अवैध घुसपैठ को रोका जा सके। उन्होंने बताया कि बांग्लादेश बॉर्डर गार्ड्स (बीजीबी) के साथ मिलकर समन्वय बैठक की गई है। बीजीबी के इनपुट के मुताबिक भारतीय सीमा में बीएसएफ भी अतिरिक्त तौर पर सतर्कता बरत रही है। डीआईजी रैंक के एक अधिकारी ने बताया कि चुनाव के बाद बड़ी संख्या में सीमा पर घुसपैठ की संभावना बनी रहती है। इस बार चुनाव में वहां हो रही हिंसा के बाद इसकी संभावना और अधिक है। पश्चिम बंगाल से सटी भारत बांग्लादेश सीमा पर बड़े पैमाने पर सुबह से ही ऐसे लोगों की भीड़ है जो घुसपैठ की फिराक में थे, लेकिन बीएसएफ ने अतिरिक्त सतर्कता बरती है। बांग्लादेश में आज आम चुनाव के लिए मतदान हो रहे हैं। कई मतदान केंद्रों पर आगजनी, तोड़फोड़, लाठीचार्ज और फायरिंग की घटनाएं हुई हैं। लगातार चौथे कार्यकाल के लिए उत्सुक बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेखा हसीना ने रविवार को 12वें आम चुनाव के लिए ढाका सिटी कॉलेज मतदान केंद्र पर अपना वोट डाला। विपक्षी बीएनपी चुनावों का बहिष्कार कर रही है, इसलिए हसीना का सत्ता बरकरार रहना तय माना जा रहा है। अवामी लीग की अध्यक्ष हसीना अपनी बेटी साइमा वाजेद, बहन शेख रेहाना और भतीजे रादवान मुजीब सिद्दीकी के साथ सुबह करीब 08 बजे मतदान केंद्र पहुंचीं और अपने मताधिकार का प्रयोग किया। ढाका-10 निर्वाचन क्षेत्र की मतदाता हसीना गोपजगंज-3 निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव लड़ रही हैं। 42 हजार से अधिक मतदान केंद्रों पर स्थानीय समयानुसार सुबह 8 बजे शुरू हुआ मतदान शाम 4 बजे तक जारी रहेगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 January 2024

new delhi, new cases, corona

नई दिल्ली। देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 774 नए मामले सामने आए हैं और दो मरीजों की मौत हुई है। शनिवार को स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार देश में 919 मरीज स्वस्थ हुए हैं। मौजूदा समय में कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या 4187 है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना से एक मरीज की मौत गुजरात में और एक मरीज की मौत तमिलनाडु में दर्ज की गई है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 January 2024

new delhi  , Logo ,

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने शनिवार को पार्टी मुख्यालय में 'भारत जोड़ो न्याय यात्रा' का लोगो लॉन्च किया। इस लोगो के दो हिस्से हैं। जिस पर लिखा है "भारत जोड़ो न्याय यात्रा, न्याय का हक मिलने तक"।   लोगो को लॉन्च करने के वक्त खड़गे के साथ कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल, पार्टी नेता जयराम रमेश व अन्य पदाधिकारी मौजूद रहे। इस दौरान खड़गे ने कहा कि यह यात्रा जनता को न्याय दिलाने व उनके अधिकारों की रक्षा के लिए हैं। भारत जोड़ो न्याय यात्रा के माध्यम से हम जनता से जुड़े मुद्दों पर बात करेंगे। खड़गे ने कहा कि हम महंगाई, बेरोजगारी, किसानों के मुद्दे, मजदूरों की बुरी हालत,अमीर-गरीब के बीच में बढ़ती खाई और जातिगत जनगणना से जुड़े मुद्दों पर जन जागरण करेंगे। यात्रा के दौरान राहुल गांधी समाज के विभिन्न वर्गों से, संगठनों से बात करेंगे और उनकी समस्याओं के समाधानों पर विचार-विमर्श करेंगे। उल्लेखनीय है कि राहुल गांधी 14 जनवरी को मणिपुर से भारत जोड़ो न्याय यात्रा शुरु करेंगे। यह यात्रा 15 राज्यों से होकर गुजरेगी। इस दौरान राहुल गांधी 67 दिनों में 6713 किमी का सफर तय करेंगे। यात्रा 15 राज्यों के 110 जिले से होकर गुजरेगी। यात्रा के दौरान राहुल गांधी 100 लोकसभा सीटें से होकर महाराष्ट्र के मुंबई में यात्रा पूरी करेंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 January 2024

new delhi, ISRO

नई दिल्ली। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने सूर्य का अध्ययन करने वाली पहली अंतरिक्ष-आधारित भारतीय वेधशाला आदित्य-एल1 को पृथ्वी से लगभग 1.5 मिलियन किलोमीटर दूर अपनी अंतिम गंतव्य कक्षा में सफलतापूर्वक स्थापित कर दिया है। शनिवार को लगभग 4 बजे अंतरिक्ष यान को पृथ्वी से लगभग 1.5 मिलियन किमी दूर सूर्य-पृथ्वी प्रणाली के लैग्रेंज बिंदु 1 (एल 1) में स्थापित कर दिया गया। एल1 बिंदु पृथ्वी और सूर्य के बीच की कुल दूरी का लगभग एक प्रतिशत है। केंद्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने शनिवार को ट्वीट करते हुए कहा कि मून वॉक से लेकर सन डांस तक भारत के लिए यह साल कितना शानदार रहा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दूरदर्शी नेतृत्व में टीम इसरो ने एक और सफलता की कहानी लिखी है। सूर्य-पृथ्वी कनेक्शन के रहस्यों की खोज के लिए अपनी अंतिम कक्षा में पहुंच गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 January 2024

jammu, Encounter in Shopian, Chotigam

शोपियां। जम्मू-कश्मीर के शोपियां जिले के चोटीगाम में शुक्रवार सुबह सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच शुरू हुई मुठभेड़ में एक आतंकी को मार गिराया गया है। अभी एक और आतंकी के जंगलों में छिपे होने की आशंका है, जिसे मार गिराने के लिए सुरक्षाबलों का अभियान जारी है। आतंकी के मारे जाने की अधिकारिक पुष्टि फिलहाल नहीं हुई है।   चोटीगाम इलाके में आतंकियों की मौजूदगी की सूचना पर सुरक्षाबलों ने घेराबंदी करते हुए तलाशी लेनी शुरू की। इस दौरान आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर गोलीबारी शुरू कर दी। इसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई। मुठभेड़ के कुछ ही घंटे बाद सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को मार गिराया। एक और आतंकी के चोटीगाम के जंगल में छिपे होने के चलते सुरक्षाबलों का अभियान फिलहाल जारी है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 January 2024

new delhi,  new cases , corona

नई दिल्ली। देश में कोरोना के नए मामलों में बढ़ोतरी जारी है। पिछले 24 घंटे में कोरोना के 761 नए मामले सामने आए हैं और इससे 12 मरीजों की मौत हुई है। शुक्रवार को जारी स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटे में कोरोना के 838 मरीज स्वस्थ हुए हैं। मौजूदा समय में 4334 एक्टिव मामले दर्ज किए गए हैं। कर्नाटक और केरल में कोरोना के नए मामलों में लगातार बढ़ोतरी जारी है। यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या भी अधिक है। कर्नाटक में पिछले 24 घंटे में कोरोना से 4 मरीजों की मौत हुई है वहीं, केरल में 5 लोगों की मौत हुई है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 January 2024

kolkata, Crack in Indi alliance, Lok Sabha elections

कोलकाता। केंद्र की सत्ता से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए कांग्रेस की अगुवाई में बने विपक्षी इंडी गठबंधन पश्चिम बंगाल में टूटता दिख रहा है। कांग्रेस और राज्य में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने साफ कर दिया है कि दोनों लोकसभा चुनाव एक-दूसरे के खिलाफ लड़ेंगे। इससे चुनाव पूर्व विपक्ष को एकजुट करने की कोशिशों को बड़ा झटका लगा है। लोकसभा चुनाव में सीटों के बंटवारे पर कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस में 24 घंटे पहले जमकर बयानबाजी हुई। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अधीर रंजन चौधरी ने कहा, ‘‘सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस तृणमूल से सीट की भीख नहीं मांगेगी।’’ इस पर ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली पार्टी ने कहा, ‘‘गठबंधन सहयोगियों को बुरा-भला कहना और सीट साझा करना एक साथ नहीं चल सकता।’’ इस पर तृणमूल के कट्टर आलोचक चौधरी ने बंगाल की सत्तारूढ़ पार्टी पर विपक्षी गठबंधन को मजबूत करने के बजाय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सेवा में व्यस्त होने का आरोप लगाते हुए तीखा हमला किया। उनकी टिप्पणी पर तृणमूल की तीखी प्रतिक्रिया आई। इसमें चौधरी की आलोचना करते हुए सीधे कांग्रेस आलाकमान को चेतावनी दी गई कि वह अपने प्रदेश अध्यक्ष पर लगाम लगाए। दोनों दलों के बीच सीटों का बंटवारा विवाद की वजह बना हुआ है। बताया जा रहा है कि तृणमूल केवल दो सीट कांग्रेस को देना चाहती है, लेकिन कांग्रेस की बंगाल इकाई को यह प्रस्ताव मंजूर नहीं है। ममता दे चुकी हैं अलग चलने के संकेतः मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पिछले महीने ही कांग्रेस से अलग चलने के संकेत दिए थे। उन्होंने कहा था कि बंगाल में तृणमूल को किसी के साथ की जरूरत नहीं है। भाजपा के खिलाफ अकेले लड़ेंगे। उन्होंने कांग्रेस और माकपा पर भी भाजपा के साथ तालमेल के आरोप लगाए थे। बंगाल की राजनीतिक स्थितिः वर्ष 2019 के चुनाव में तृणमूल ने लोकसभा की कुल 42 में से 22 सीटों पर और कांग्रेस ने दो सीट (बेहरामपुर और मालदा दक्षिण) में जीत दर्ज की थी। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने 18 सीट जीती थीं। कांग्रेस नेता चौधरी ने अपने निर्वाचन क्षेत्र बहरमपुर में संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘तृणमूल बंगाल में गठबंधन को मजबूत करने को लेकर गंभीर नहीं है। तृणमूल खुद को सीबीआई और ईडी के चंगुल से बचाने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को खुश करने और उनकी सेवा करने में लगी हुई है।’’ कांग्रेस को चार सीट देने पर टीएमसी तैयारः तृणमूल के कुछ नेता कहते हैं कि पार्टी 42 लोकसभा सीटों में से कांग्रेस को चार सीट देना चाहती है। दोनों पार्टियां पहले भी गठबंधन कर चुनाव लड़ चुकी हैं। इनमें वर्ष 2001 का विधानसभा चुनाव, 2009 का लोकसभा चुनाव और 2011 का विधानसभा चुनाव शामिल है। वर्ष 2011 में कांग्रेस-टीएमसी गठबंधन ने पश्चिम बंगाल में 34 वर्षीय वाम मोर्चा शासन का अंत कर दिया था। उल्लेखनीय है कि वर्ष 2016 से कांग्रेस वामदलों के साथ मिलकर लगातार तृणमूल के खिलाफ चुनाव लड़ती रही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 January 2024

new delhi, New variant , Corona JN.1

नई दिल्ली। देश में जहां कोरोना के नए मामलों में बढ़ोतरी हो रही है वहीं इसके नए वेरियंट जेएन.1 के 511 मामलों की पुष्टि की जा चुकी है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक इस नए वेरियंट जेएन.1 के मामले अबतक 11 राज्यों में मिले हैं। इनमें कर्नाटक से 199, केरल से 148, गोवा से 47, गुजरात से 36, महाराष्ट्र से 32, तमिलनाडु से 26, दिल्ली से 15, राजस्थान से 4, तेलंगाना से 2, ओडिशा से 1 और हरियाणा से 1 मामले की पुष्टि की गई है। उल्लेखनीय है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने जेएन.1 को इसके तेजी से वैश्विक प्रसार के बाद इसे निगरानी में रखे जाने वाले स्वरूप के रूप में वर्गीकृत किया है लेकिन साथ ही सीमित उपलब्ध साक्ष्यों को ध्यान में रखते हुए जेएन.1 द्वारा उत्पन्न अतिरिक्त सार्वजनिक स्वास्थ्य जोखिम को वर्तमान में वैश्विक स्तर पर कम आंका है। यह वेरियंट ऑफ इंटरेस्ट है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 January 2024

new delhi, Driver strike case,Central government

नई दिल्ली। ड्राइवरों की हड़ताल को लेकर केन्द्र सरकार गंभीर है। इस मामले को लेकर मंगलवार को केंद्रीय गृह सचिव अजय कुमार भल्ला ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस (एआईएमटीसी) के एक प्रतिनिधि मंडल से बातचीत करेंगे।     गृह मंत्रालय के सूत्रों का कहना है कि भारतीय न्याय संहिता (बीएनएस) में कोई भी कानून ड्राइवरों के हितों के विरुद्ध नहीं है। बल्कि अगर वो गलत नहीं हैं तो नये कानून उनकी रक्षा करने वाले हैं। नये कानून में प्रावधान है कि अगर किसी सड़क हादसे के बाद गाड़ी चालक पुलिस-प्रशासन को सूचना देता है तो कानून उसके साथ है। ऐसे मामले में 10 वर्ष की सजा नहीं होगी। लेकिन हादसे के बाद अगर वाहन चालक बिना पुलिस-प्रशासन को सूचित किए भाग जाता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।     केन्द्र सरकार का कहना है कि हिट एंड रन मामले में जो प्रावधान बढ़ाया गया है 10 साल तक, ये सुप्रीम कोर्ट के ऑब्जर्वेशन के तहत लिखा गया है। सुप्रीम कोर्ट ने एकाधिक मामले में कहा है कि वाहन चालक जो लापरवाही से गाड़ी चलाते हैं और सड़क पर दुर्घटना करके जिससे किसी की मौत हो जाती है, वहां से भाग जाते हैं, ऐसे लोगों के ऊपर कार्यवाही सख़्त होनी चाहिए।     केन्द्र सरकार का कहना है कि भारतीय न्याय संहिता (बीएनएस) सब-सेक्शन 106 (1) और सब-सेक्शन 106 (2) से यह स्पष्ट होता है कि यदि व्यक्ति घटना के तुरंत बाद किसी पुलिस अधिकारी या मजिस्ट्रेट को लापरवाही से गाड़ी चलाने से मौत की घटना की रिपोर्ट करता है, तो उस पर सब-सेक्शन 106 (2) की जगह सब-सेक्शन 106 (1) के तहत आरोप लगाया जाएगा, जिसमे 0-5 साल तक की सजा है, जबकि सब-सेक्शन 106(2) के तहत 0-10 साल के सजा का प्रावधान है। धारा 106 (1) अभी एक जमानती अपराध है, और धारा 106 (2) गैर-जमानती है।     भारतीय न्याय संहिता 2023 में हुए संशोधन को लेकर ड्राइवर दो दिनों से चक्का जाम कर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस का आरोप है कि नये कानून में ड्राइवरों के हितों की रक्षा नहीं की गई है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 January 2024

new delhi,Universities play, Prime Minister

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को कहा कि किसी भी राष्ट्र को दिशा देने में विश्वविद्यालय महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। मोदी ने तमिलनाडु के तिरुचिरापल्ली स्थित भारतीदासन विश्वविद्यालय के 38वें दीक्षांत समारोह में कहा कि दीक्षांत समारोह में यहां आना मेरे लिए विशेष है। यह 2024 में मेरी पहली सार्वजनिक बातचीत है। मैं तमिलनाडु के खूबसूरत राज्य और युवा लोगों के बीच आकर खुश हूं। मैं ऐसा करने वाला पहला प्रधानमंत्री हूं जिसे दीक्षांत समारोह में यहां आने का सौभाग्य मिला है। मैं उन छात्रों और उनके अभिभावकों को बधाई देता हूं जो आज यहां से स्नातक हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमारा देश और सभ्यता हमेशा ज्ञान के इर्द-गिर्द केंद्रित रही है। कुछ प्राचीन विश्वविद्यालय जैसे कि नालंदा और तक्षशिला प्रसिद्ध हैं। इसी तरह कांचीपुरम जैसे स्थानों में भी महान विश्वविद्यालय होने का उल्लेख मिलता है। गंगईकोंडा चोलपुरम और मदुरै भी शिक्षा के महान केंद्र थे। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आप जो विज्ञान सीखते हैं, वह आपके गांव के किसान की मदद कर सकता है, जो तकनीक आप सीखते हैं, वह जटिल समस्याओं को हल करने में मदद कर सकती है। जो व्यवसाय प्रबंधन आप सीखते हैं, वह व्यवसाय चलाने में मदद कर सकता है और दूसरों के लिए आय वृद्धि सुनिश्चित कर सकता है। जो अर्थशास्त्र आप सीखते हैं, वह गरीबी को कम करने में मदद कर सकता है। एक तरह से, यहां का प्रत्येक स्नातक 2047 तक एक विकसित भारत बनाने में योगदान दे सकता है। उन्होंने कहा कि पिछले 10 वर्षों में भारत ने महत्वपूर्ण अर्थव्यवस्थाओं के साथ कई व्यापार समझौते भी किए हैं। ये सौदे हमारी वस्तुओं और सेवाओं के लिए नए बाजार खोलेंगे। वे हमारे युवाओं के लिए अनगिनत नए अवसर भी पैदा करेंगे। चाहे वह जी20 जैसे संस्थानों को मजबूत करना हो, जलवायु परिवर्तन से लड़ना हो, वैश्विक आपूर्ति शृंखला में बड़ी भूमिका निभाते हुए भारत का हर वैश्विक समाधान के एक हिस्से के रूप में स्वागत किया जा रहा है। कई मायनों में स्थानीय और वैश्विक कारकों के कारण यह भारत में युवा होने का सबसे अच्छा समय है। प्रधानमंत्री ने युवाओं से कहा कि आप ऐसे समय में दुनिया में कदम रख रहे हैं जब हर क्षेत्र में हर कोई आपकी ओर एक नई आशा के साथ देख रहा है। युवा का अर्थ है ऊर्जा। इसका अर्थ है गति, कौशल और पैमाने के साथ काम करने की क्षमता। उन्होंने कहा कि पिछले 10 वर्षों में हवाई अड्डों की संख्या 74 से दोगुनी होकर लगभग 150 हो गई है। तमिलनाडु में एक जीवंत समुद्र तट है। इसलिए आपको यह जानकर खुशी होगी कि कुल भारत में प्रमुख बंदरगाहों की कार्गो प्रबंधन क्षमता 2014 से दोगुनी हो गई है। हमारे इनोवेटर्स ने पेटेंट की संख्या 2014 में लगभग 4,000 से बढ़ाकर अब लगभग 50,000 कर दी है। हमारे मानवता विद्वान भारत की कहानी को दुनिया के सामने इस तरह प्रदर्शित कर रहे हैं जैसे पहले कभी नहीं किया गया। हमारे संगीतकार और कलाकार लगातार हमारे देश में अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार ला रहे हैं। कार्यक्रम में तमिलनाडु के राज्यपाल आरएन रवि और मुख्यमंत्री एमके स्टालिन भी मौजूद रहे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 January 2024

new delhi, Successful launch, X-ray polarimeter satellite

नई दिल्ली। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने सोमवार को एक और इतिहास रच दिया है। इसरो ने नये साल के पहले दिन सोमवार को एक्स-रे पोलरिमीटर उपग्रह का प्रक्षेपण किया। इसका उद्देश्य ब्लैक होल जैसे आकाशीय पिंडों के रहस्यों का अध्ययन करना है। इसरो प्रमुख एस सोमनाथ ने सफल प्रक्षेपण पर कहा कि आज एक और सफल अभियान पूरा हो गया है। उन्होंने कहा कि यह खगोलीय स्रोतों से एक्स-रे उत्सर्जन का अंतरिक्ष आधारित ध्रुवीकरण माप में अध्ययन करने के लिए अंतरिक्ष एजेंसी का पहला समर्पित वैज्ञानिक उपग्रह है। एस सोमनाथ ने कहा कि सबसे भरोसेमंद ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान (पीएसएलवी) ने अपने सी 58 मिशन में मुख्य एक्स-रे पोलरिमीटर उपग्रह को पृथ्वी की 650 किलोमीटर निचली कक्षा में स्थापित किया। पीएसएलवी ने यहां पहले अंतरिक्ष तल से सुबह नौ बजकर 10 मिनट पर उड़ान भरी थी। सफल मिशन के बाद मीडिया से बातचीत में इसरो अध्यक्ष एस सोमनाथ ने कहा कि एक जनवरी 2024 को पीएसएलवी का एक और सफल अभियान पूरा हुआ। पीएसएलवी-सी58 ने प्रमुख उपग्रह एक्सपोसैट को निर्धारित कक्षा में स्थापित कर दिया है। इस बिंदु से पीएसएलवी के चौथे चरण की कक्षा सिमट कर निचली कक्षा में बदल जाएगी, जहां पीएसएलवी का ऊपरी चरण जिसे ‘पोअम' बताया गया है वह पेलोड के साथ प्रयोग करेगा और उसमें थोड़ा वक्त लगेगा। क्या करेगा एक्स रे पोलरिमीटर पोलरिमीटर उपग्रह एक्सपोसैट एक्स-रे स्रोत के रहस्यों का पता लगाने और ‘ब्लैक होल' की रहस्यमयी दुनिया का अध्ययन करने में मदद करेगा। यह मिशन पांच साल तक काम करेगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 January 2024

new delhi, commercial gas cylinder, becomes cheaper

नई दिल्ली। नए साल-2024 के पहले दिन कमर्शियल गैस सिलेंडर के मूल्य में कटौती की गई है। सार्वजनिक क्षेत्र की तेल एवं विपणन कंपनियों ने बड़ी राहत देते हुए 19 किलोग्राम वाले कमर्शियल गैस सिलेंडर की कीमत में 1.50 रुपये से लेकर 4.50 रुपये तक की कटौती की है। नई दरें आज (सोमवार) से लागू हो गई हैं।   इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड (आईओसीएल) की वेबसाइट के मुताबिक अब राजधानी दिल्ली में 19 किलोग्राम वाले गैस सिलेंडर की कीमत 1.50 रुपये घटकर 1755.50 रुपये हो गई है। मुंबई में इसका दाम 1.50 रुपया सस्ता होकर 1708.50 रुपये हो गया है। चेन्नई में सबसे ज्यादा 4.50 रुपये घटकर इसकी कीमत 1924.50 रुपये हो गई है। कोलकाता में इसकी कीमत 50 पैसे की मामूली बढ़त के साथ 1869 रुपए हो गई है। उल्लेखनीय है कि इससे पहले तेल कंपनियों ने 22 दिसंबर, 2023 को 19 किलोग्राम वाले कमर्शियल गैस सिलेंडर की कीमत में 39.50 रुपये तक की कटौती की थी। हालांकि, 14.2 किलोग्राम वाले घरेलू रसोई गैस सिलेंडरों के दाम में कोई कटौती नहीं की गई है। दिल्ली में अभी यह 903 रुपये में मिल रहा है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 January 2024

mumbai, 6 workers died,sock manufacturing company

मुंबई। महाराष्ट्र के संभाजीनगर जिले के बालुंज एमआईडीसी इलाके में स्थित मोजे बनाने वाली एक कंपनी में में बीती रात अचानक आग लग जाने से 6 मजदूरों की मौत हो गई। इस घटना में 7 मजदूर किसी तरह अपनी जान बचाने में कामयाब रहे। फायर ब्रिगेड के जवानों ने रविवार सुबह तक आग पर काबू पा लिया है।   बालुंज एमआईडीसी इलाके में सनशाइन नामक मोजा बनाने वाली कंपनी में बीती रात तकरीबन 13 मजदूर काम कर रहे थे। कंपनी के दरवाजे पर ही रात में आग लग गई। आग देखकर सात मजदूरों ने किसी तरह कंपनी के बाहर निकलकर अपनी जान बचा ली, लेकिन छह मजदूर कंपनी से बाहर नहीं निकल सके। इस वजह से इन छह मजदूरों की मौके पर ही मौत हो गई। मरने वाले मजदूरों में भल्ला शेख, कौसर शेख, इकबाल शेख, मगरूफ शेख और मिर्ज़ापुर के दो अन्य मजदूर हैं। स्थानीय पुलिस ने इन सभी के शव पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल में भेज दिया है। विधायक संदीपन भूमरे ने बताया कि इस घटना में छह लोगों की मौत हो गई है और सात लोगों को बचा लिया गया है। घटना बहुत ही दुखद है। मामले की गहन छानबीन की जाएगी और दोषी लोगों पर कठोर कार्रवाई की जाएगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 December 2023

new delhi, India increased surveillance ,Gulf of Aden

नई दिल्ली। पिछले कुछ हफ्तों में लाल सागर, अदन की खाड़ी और मध्य-उत्तरी अरब सागर में अंतरराष्ट्रीय शिपिंग लेन से गुजरने वाले व्यापारिक जहाजों के साथ हुईं घटनाओं को देखते हुए भारतीय नौसेना ने निगरानी बढ़ा दी है। भारतीय नौसेना ने लाल सागर से गुजरने वाले व्यापारिक जहाज़ों की सुरक्षा के लिए विभिन्न क्षेत्रों में पांच जहाज तैनात किये हैं। इसके अलावा लंबी दूरी के समुद्री टोही पी-8आई विमानों को नियमित रूप से तैनात किया गया है। लाल सागर में लाइबेरियन फ्लैग केमिकल, ऑयल टैंकर एमवी केम प्लूटो पर 23 दिसंबर को हमला हुआ था, जिसे भारतीय नौसेना और भारतीय तटरक्षक बल (आईसीजी) ने बचाया। इसके बाद जहाज को आईसीजी के जहाज आईसीजीएस विक्रम की निगरानी में 21 भारतीय और 01 वियतनामी चालक दल के साथ 25 दिसंबर को मुंबई लाया गया। साथ ही क्षेत्र में जागरुकता बनाए रखने के लिए लंबी दूरी के समुद्री टोही पी-8आई विमानों को नियमित रूप से तैनात किया है। पश्चिमी नौसेना कमान का समुद्री संचालन केंद्र तटरक्षक बल और सभी संबंधित एजेंसियों के साथ समन्वय कर सक्रिय रूप से स्थिति की निगरानी कर रहा है। पिछले कुछ हफ्तों में लाल सागर, अदन की खाड़ी और मध्य-उत्तरी अरब सागर में समुद्री असुरक्षा की घटनाएं बढ़ी हैं। भारतीय तट से लगभग 700 समुद्री मील दूर एमवी रुएन पर समुद्री डकैती की घटना और पोरबंदर से लगभग 220 समुद्री मील दक्षिण पश्चिम में एमवी केम प्लूटो पर हाल ही में हुआ ड्रोन हमला भारतीय विशेष आर्थिक क्षेत्र (ईईजेड) के करीब समुद्री घटनाओं में बदलाव का संकेत देता है। इन घटनाओं के जवाब में भारतीय नौसेना ने विध्वंसक आईएनएस कोच्चि, कोलकाता, मोरमुगाओ और फ्रिगेट आईएनएस त्रिशूल को लाल सागर के पास तैनात किया है। इसके अलावा किसी भी घटना की स्थिति में व्यापारिक जहाजों को सहायता देने के लिए विध्वंसक और फ्रिगेट वाले कार्य समूहों को तैनात किया गया है। स्वदेशी आईएनएस कोच्चि राडार से बच निकलने के लिए डिजाइन किया गया है और इसमें अत्याधुनिक हथियार लगाए गए हैं। यह अग्रणी सुपरसोनिक तथा जमीन से जमीन तक मार करने वाली ब्रह्मोस मिसाइल से लैस है। आईएनएस कोलकाता भारत में अब तक तैयार किये गए युद्धपोतों में सर्वाधिक ताकतवर माना जाता है। यह भी लंबी दूरी तक भूमि से भूमि तक मार करने वाली ब्रह्मोस मिसाइल से लैस है। मोरमुगाओ भारतीय नौसेना के विशाखापत्तनम श्रेणी के स्टील्थ गाइडेड-मिसाइल विध्वंसक जहाज का दूसरा जहाज है। फ्रिगेट आईएनएस त्रिशूल सतह से हवा में मार करने वाली हथियार प्रणालियों से लैस है। नौसेना ने एक बयान में कहा कि संपूर्ण समुद्री डोमेन जागरुकता के लिए लंबी दूरी के समुद्री गश्ती विमानों और हवाई निगरानी को भी बढ़ाया गया है। ईईजेड की प्रभावी निगरानी के लिए भारतीय नौसेना तटरक्षक बल के साथ निकट समन्वय में काम कर रही है। राष्ट्रीय समुद्री एजेंसियों के समन्वय से भारतीय नौसेना समग्र स्थिति पर बारीकी से नजर रख रही है। भारत की नौसेना क्षेत्र में व्यापारिक जहाजरानी की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 December 2023

new delhi, Dense fog ,IGI airport

नई दिल्ली। उत्तर भारत में पड़ रही कड़ाके की ठंड और घने कोहरे से सड़क, रेल और विमान यातायात लगातार प्रभावित हो रहा है । दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे (आईजीआईए) पर जीरो दृश्यता के कारण करीब 80 उड़ानें प्रभावित हुई हैं।   दिल्ली एयरपोर्ट के आधिकारियों के अनुसार, आज सुबह 8.30 बजे तक एयरपोर्ट से जाने वाली करीब 80 फ्लाइट लेट हैं। खराब मौसम की वजह से उड़ानों के परिचालन में दिक्कत आ रही है। उल्लेखनीय है कि 25 दिसंबर की मध्यरात्रि से 28 दिसंबर को सुबह छह बजे के बीच तक खराब मौसम की वजह से कुल 58 उड़ानों के मार्ग परिवर्तित किए गए थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 December 2023

ranchi,ED summoned ,Jharkhand Chief Minister

रांची। झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने शनिवार को सातवीं बार समन भेजकर तलब किया है। ईडी ने उन्हें सात दिन के अंदर बयान दर्ज कराने को कहा है। साथ ही दो दिन के अंदर ऐसी जगह बताने को कहा है, जो उनके और एजेंसी के लिए उपयुक्त हो। ईडी ने मुख्यमंत्री सोरेन को पहली बार इस साल 14 अगस्त को पूछताछ के लिए बुलाया था। इसके बाद 24 अगस्त, नौ सितंबर, 23 सितंबर, चार अक्टूबर और 12 दिसंबर को समन भेजकर पूछताछ के लिए रांची जोनल कार्यालय बुलाया था। मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में ईडी ने कहा है कि बड़गाईं अचंल के राजस्व कर्मचारी भानु प्रताप के मामले में दर्ज ईसीआईआर संख्या आरएनजेडओ/25/23 की जांच चल रही है। यह जांच सरकारी दस्तावेज में छेड़छाड़ और जालसाजी से संबंधित है। इसमें बयान दर्ज करने के लिए इससे पहले छह समन भेजे जा चुके हैं। आप एक बार भी ईडी कार्यालय में हाजिर नहीं हुए। इसके लिए आपने निराधार कारण बताए। इससे जांच में अड़चन आ रही है। उल्लेखनीय है कि ईडी के समन को मुख्यमंत्री दुर्भावना और राजनीति से प्रेरित बताते हुए परेशान करने का आरोप लगाते रहे हैं। साथ ही समन वापस नहीं लेने पर कानूनी रास्ता अपनाने की बात कह चुके हैं। मुख्यमंत्री सुप्रीम कोर्ट का भी दरवाजा खटखटा चुके हैं। सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें हाई कोर्ट जाने की सलाह दी। वहां भी गए पर उन्हें किसी तरह की राहत नहीं मिली। हाई कोर्ट से सोरेन को झटका मिलने के बाद ईडी ने उन्हें छठा समन भेजा। इस पर मुख्यमंत्री ने ईडी को पत्र लिखा। इसमें कहा गया कि वह अपनी और पारिवारिक सदस्यों की संपत्ति से संबंधित जानकारी पहले ही एजेंसी को दे चुके हैं। संपत्ति की खरीद वैध स्रोत से की गई है। आयकर विभाग इसे स्वीकार कर चुका है।इसलिए अगर ईडी को कोई और जानकारी चाहिए, तो वह उसका लिखित उल्लेख करे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 December 2023

new delhi, Case registered .Israeli embassy

नई दिल्ली। नई दिल्ली जिले के तुगलक रोड थाना क्षेत्रान्तर्गत इजराइली दूतावास के पास 26 दिसंबर को देर शाम हुए संदिग्ध ब्लास्ट की कॉल के मामले में आखिरकार दिल्ली पुलिस ने बड़ा एक्शन लेते हुए एफआईआर दर्ज कर ली है। यह एफआईआर तुगलक रोड थाने में दर्ज की गई है। फिलहाल अज्ञात लोगों को नामजद किया गया है।   इससे पहले इजराइली दूतावास के पास हुए संदिग्ध ब्लास्ट की कॉल के मामले में दिल्ली पुलिस ने कोई भी एफआईआर दर्ज नहीं की थी लेकिन तीन दिनों तक चली छानबीन और जांच के बाद अब पहली एफआईआर दर्ज कर ली गई है। इस संदिग्ध ब्लास्ट के मामले में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के अलावा एनआईए भी जांच कर रही है। अभी तक की हुई जांच के बाद पुलिस ने 10 लोगों के बयान दर्ज किए हैं, जिन्होंने ब्लास्ट जैसी आवाज सुनी थी या धुआं जैसा कुछ देखा था।   सीसीटीवी फुटेज से पता चला कि विस्फोट के दौरान या उससे पहले वह