Since: 23-09-2009

  Latest News :
गायक पंकज उधास का निधन.   जेपी नड्डा ने \'विकसित भारत, मोदी की गारंटी\' रथ को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना.   देश में स्थिर सरकार का असर कपड़ा उद्योग क्षेत्र में भी नजर आया: प्रधानमंत्री .   प्रधानमंत्री मोदी ने सबसे लंबा केबल ब्रिज `सुदर्शन सेतु\' देश को समर्पित किया.   बगैर लोको पायलट पटरी पर दौड़ी मालगाड़ी.   ‘मन की बात’ पर तीन महीने का विराम.   इंदौर रोड पर बस-डंपर से टकराई.   कूनो में सफल हुआ है चीतों का पुनर्स्थापन: केंद्रीय मंत्री.   गिट्टी से भरे तेज रफ्तार डंपर ने दो बाइक सवार युवकों को मारी टक्कर.   मप्र के 33 रेलवे स्टेशनों का होगा पुनर्विकास प्रधानमंत्री मोदी ने किया शिलान्यास.   लोकसभा चुनाव में मतदाता लोकतंत्र का भविष्य तय करेंगे: केंद्रीय गृह मंत्री शाह.   कार्यकर्ता हर बूथ पर नरेन्द्र मोदी बनकर खड़ा हो और पार्टी जिताने का संकल्प लें: अमित शाह.   मीसाबंदियों की सम्मान निधि फिर शुरू होगी- मुख्यमंत्री साय.   एक शैक्षणिक सत्र में दो बार होगी बोर्ड की परीक्षाएं, आदेश जारी.   सदन में उठा कवर्धा दोहरे हत्याकांड का मामला विपक्ष ने कहा कानून व्यवस्था गंभीर.   बड़े भाई ने छोटे भाई की गोली मार कर की हत्या.   नवविवाहिता की आग से जलकर मौत.   एंटी करप्शन ब्यूरो के 9 अफसरों ने आबकारी अधिकारी के सरकारी आवास में मारी रेड.  

मध्यप्रदेश की खबरें

khandwa, Bus collides , Indore road

खंडवा। इंदौर रोड पर मंगलवार सुबह सात बजे बस और डंपर के बीच टक्कर हो गई। हादसे में 20 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं। हादसा छैगांवमाखन से पहले सीवी रमन कॉलेज के पास नेशनल हाईवे के बायपास पुलिया पर हुआ। प्राप्त जानकारी के अनुसार मंगलवार सुबह जायसवाल बस सर्विस की बस इंदौर के लिए रवाना हुई। बायपास पुलिया के समीप बस के सामने अचानक डंपर आ गया। टक्कर के बाद बस का संतुलन बिगड़ा और वह हाईवे से नीचे उतर गई। हादसे की सूचना मिलते ही मौके पर छैगांवमाखन पुलिस सहित दो 108 एंबुलेंस और डायल 100 पहुंची। घायलों को मामूली चोटें आई हैं। एक बुजुर्ग की हालत गंभीर है, जिन्हें सिर में चोंट आई है। बस ड्राइवर का कहना है कि वो निर्माणाधीन हाईवे का पुल क्रॉस कर रहा था, उसी दौरान पुल में अंधेरे के कारण सामने से आ रहा डंपर दिखाई नहीं दिया। डंपर से टक्कर के बाद अचानक संतुलन बिगड़ा तो बस नीचे उतर गई। ब्रेक लगने से अचानक झटका लगा तो यात्री घायल हुए। सभी घायलों को एंबुलेंस से अस्पताल ले जाया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  27 February 2024

bhopal, Restoration of cheetahs ,Union Minister

भोपाल। केंद्रीय वन, पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री भूपेंद्र यादव ने कहा कि श्योपुर में क्रियान्वित चीता परियोजना स्थानीय निवासियों के सहयोग से सफलतापूर्वक संचालित हो रही है। यहां चीतों का पुनर्स्थापन सफल हुआ है। यह दुनिया का अपनी तरह का पहला ऐसा सफल प्रकल्प है, जहां चीतों का ट्रांसलोकेशन अंतर्महाद्वीपीय आधार पर किया गया। चीतों ने यहां के मौसम के अनुकूल रहवास करते हुए तमाम आशंकाओं को भी दूर किया। यहां 20 चीते लाए गए थे, परिस्थितियों के कारण कुछ चीते नहीं रहे लेकिन आज इनकी संख्या 21 है और सभी निरंतर भ्रमण कर रहे हैं। निश्चित ही इस क्षेत्र में लघु और दीर्घकालिक योजनाओं के क्रियान्वयन से हम आगे बढ़ेंगे। केंद्रीय मंत्री यादव सोमवार को श्योपुर के सेंसईपुरा में चीता मित्र सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव भी मौजूद रहे। इस अवसर पर उन्होंने 71.89 करोड़ के विकास कार्यों का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। मुख्यमंत्री और केन्द्रीय मंत्री ने कार्यक्रम में 350 चीता मित्रों को साइकिल वितरण भी किया। वन्य प्राणियों के साथ जीवन भारतीय संस्कृति की विशेषता मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा कि श्योपुर जिले में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की कल्पना साकार हो रही है। एशिया से 70 वर्ष पहले चीता प्रजाति चली गई थी। यहां वन्यप्राणियों के लिए स्थान आरक्षित कर विशेष प्रयासों से चीता पुनर्स्थापन हुआ है। एक समय था जब गांधी सागर क्षेत्र में भी चीते रहे होंगे, क्योंकि वहां ऐसे चित्रांकन प्राप्त हुए हैं। प्रकृति से छेड़छाड़ और अन्य कारण से विलुप्त हो रहे वन्य प्राणियों का संरक्षण संभव हो रहा है। मध्यप्रदेश टाइगर, गिद्द, तेंदूआ के साथ चीतों की संख्या की दृष्टि से देश में प्रथम है। वन्य प्राणियों के साथ जीवन जीना भारतीय संस्कृति की विशेषता है। मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा कि वन्य प्राणी संरक्षण के साथ अर्थव्यवस्था में परिवर्तन भी लाया जा रहा है। इसके लिए सिर्फ वन विभाग पर निर्भर न होकर समस्त विभागों का सहयोग लिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पालपुर कूनो क्षेत्र में स्थानीय निवासियों की निर्धनता को समाप्त करने के लिए उन्हें विभिन्न रोजगारों से जोड़ा जा रहा है। पर्यटन सहित अन्य क्षेत्रों में उन्हें कार्य और रोजगार का अवसर दिया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने क्षेत्र के विकास के लिए महत्वपूर्ण घोषणाएं की मुख्यमंत्री ने कहा कि श्योपुर में नए विकास कार्यों की शुरूआत हो रही है। जहां कूनो में नदी पर पुल निर्माण के लिए 37 करोड़ की राशि खर्च होगी, वहीं आज सात करोड़ रुपये लागत की नलजल योजना का भूमिपूजन भी किया गया। स्थानीय निवासियों को आशियाना बनाने के लिए दो लाख के स्थान पर ढाई लाख रुपये की राशि दी जा रही है। मुख्यमंत्री डॉ यादव ने कहा कि क्षेत्र में 19 करोड़ रुपये लागत से पानीवरदा से चिकित्सा महाविद्यालय तक सड़क का निर्माण किया जाएगा। एक पृथक अस्पताल भी प्रारंभ होगा। कूनो क्षेत्र में पेट्रोल पम्प की व्यवस्था भी होगी, ताकि स्थानीय निवासियों को दूर नहीं जाना पड़े। चीता मित्रों को साइकिल प्रदान की गई है। भविष्य में इन्हें आवश्यकतानुसार मोटर साइकिल भी दी जाएगी। रोजगार साधन निरंतर बढ़ाए जाएंगे। विभागों द्वारा सम्मिलित रूप से कार्य किया जाएगा और समन्वित विकास योजना का क्रियान्वय किया जाएगा। राजस्व ग्रामों के साथ वन ग्रामों में आवश्यक सुविधाएं विकसित करने के कदम उठाए जाएंगे। कार्यक्रम में वन एवं पर्यावरण मंत्री नागर सिंह चौहान ने कहा कि पालपुर कूनो क्षेत्र के आर्थिक विकास की राह खुल गई है। चीता परियोजना को जन सहयोग मिल रहा है। विधायक रामनिवास रावत ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया। इस मौके पर बड़ी संख्या में जनप्रतिनिधि और नागरिक उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 February 2024

damoh, speeding dumper , riding a bike

दमोह। जिले के हिंडोरिया थाना क्षेत्र में सोमवार दोपहर एक भीषण सड़क हादसा हो गया। यहां गिट्टी से भरे एक तेज रफ्तार डंपर ने दो बाइक सवार युवकों को टक्कर मार दी। टक्कर मारने के बाद डंपर पुलिया से नीचे पलट गया। हादसे में तीन युवकों की मौके पर ही मौत हो गई। हादसे की वीभत्सता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि शव के परखच्चे उड़ गए, जिससे उन्हें पहचान पाना भी मुश्किल हो गया, यही हाल उनकी बाइक का हुआ। हादसे के बाद डंपर चालक मौके से फरार हो गया। सूचना के बाद हिंडोरिया थाना प्रभारी अमित गौतम मौके पर पहुंचे और शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया और मर्ग कायम कर मामले को जांच में लिया।   जानकारी अनुसार घटना हिंडोरिया के ताज पुलिया की है। डंपर क्रमांक आरजे 44 जीए 1018 गिट्टी भरकर दमोह से हिंडोरिया जा रहा था। इस दौरान ताज पुलिया के समीप दो बाइक पर जा रहे तीन लोगों को डंपर चालक ने सीधी टक्कर मार दी। टक्कर इतनी भीषण थी कि बाईक के परखच्चे उड़ गए। मौके पर ही बाईक सवार तीनों युवकों की मौत हो गई। शव कई हिस्सों में बट गए। टक्कर मारने के बाद डंपर भी अनियंत्रित होकर पुलिया से नीचे पलट गया। तत्काल ही स्थानीय लोगों की भीड़ मौके पर एकित्रत हो गई और हिंडोरिया पुलिस को सूचित किया गया। मृतकों की पहचान कपिल पुत्र बलीराम अहिरवार 35 वर्ष निवासी हिंडोरिया वार्ड क्रमांक 11, दूसरी बाइक पर सवार अनिमेष मिश्रा 20 निवासी निमरमुंडा और वंश मिश्रा 16 निवासी निमरमुंडा के रूप में हुई है। घटना के बाद डंपर चालक फरार है उसका कहीं कोई सुराग नहीं लग पाया। हिंडोरिया थाना प्रभारी अमित गौतम ने बताया कि तीनों शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। फिलहाल पुलिस मामला दर्ज कर डंपर चालक की तलाश में जुट गई है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 February 2024

bhopal, 33 railway stations , foundation stone

भोपाल। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को अमृत भारत रेलवे स्टेशन योजना के अंतर्गत देशभर के 554 रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास कार्यों की शुरुआत की। इनमें मध्यप्रदेश के 33 रेलवे स्टेशन भी शामिल हैं। कार्यक्रम में प्रधानमंत्री मोदी दिल्ली से वर्चुअली जुड़े और भारतीय रेलवे के 41 हजार करोड़ रुपये की इन रेल परियोजनाओं का रिमोट के जरिए लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। इनमें 554 रेलवे स्टेशनों के पुनर्विकास एवं 1500 रोड़ ओवर ब्रिजों, अंडरपास का लोकार्पण-शिलान्यास शामिल है। इस अवसर पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज भारत ने छोटे-छोटे सपने देखना छोड़ दिया है। हम बड़े सपने देखते हैं और पूरे करने के लिए दिनरात एक कर देते हैं। यही संकल्प इस विकसित भारत, विकसित रेलवे कार्यक्रम में दिख रहा है। दशकों तक रेलवे को स्वार्थ भरी राजनीति का शिकार होना पड़ा, लेकिन अब भारतीय रेलवे देशवासियों की यात्रा में आसानी कर रही है। आज रेलवे इज ऑफ ट्रैवलिंग का हिस्सा बन गई है। जिस रेलवे के हमेशा घाटे में रहने का रोना रोया जाता था, आज वह परिवर्तन के सबसे बड़े दौर से गुजर रही है। उन्होंने कहा कि देश में तेजी से काम हो रहा है। आज एक साथ रेलवे से जुड़ी दो हजार से अधिक परियोजनाओं का शिलान्यास-लोकार्पण हुआ है। अभी तो इस सरकार के तीसरे टर्म की शुरुआत जून से शुरू होने वाली है। अभी से जिस स्पीड से काम हो रहा है, वह सबको हैरत में डालने वाला है। उन्होंने कहा कि आपका सपना, आपकी मेहनत और मोदी का संकल्प विकसित भारत की गारंटी है। वंदे भारत जैसी सेमी हाईस्पीड ट्रेन के बारे में किसी सरकार ने नहीं सोचा। इसकी कल्पना एक दशक तक पहले मुश्किल थी। एक दशक पहले तक ट्रेन में स्वच्छता स्टेशन पर सफाई बड़ी बात मानी जाती थी। आज ये सब रोजमर्रा की जिंदगी का हिस्सा बन गए हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि एयरपोर्ट जैसी आधुनिक सेवाएं सिर्फ पैसे वालों खाते में है। आज रेलवे स्टेशन पर एयरपोर्ट जैसी सुविधा गरीब लाभ ले सकता है। रेलवे लाइन बिछाने की गति दोगुनी हो गई। आज ऐसी जगहों पर रेल पहुंच रही है। जिसकी लोगों ने कल्पना भी नहीं की। जैसे बैंक में जमा पैसे पर ब्याज मिलता है, वैसे इंफ्रास्ट्रक्चर पर लगी पाई से रोजगार के साधन बनते हैं। हमारी रेल छोटे किसानों को बढ़ावा देने वाली है। इसके लिए स्टेशनों पर विशेष दुकानें बनाई गई हैं। रेल की गति बढ़ेगी और उत्पादन तेजी से मार्केट पहुंचेंगे और उद्योगों की लागत कम होगी। आज पूरी दुनिया में भारत को निवेश के लिए सबसे आकर्षक माना जा रहा है। इसका कारण आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर है। रेलवे के लिए अभूतपूर्व कार्यक्रमः रेल मंत्री   कार्यक्रम में रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने स्वागत उद्बोधन में इसे रेलवे के लिए सबसे बड़ा कार्यक्रम बताया। उन्होंने कहा कि यह अभूतपूर्व कार्यक्रम है। देश के दो हजार 21 स्थानों पर यह कार्यक्रम हो रहा है। वंदे भारत ट्रेन आज विश्व स्तर की रेल यात्रा का आनंद दे रही है। वैष्णव ने इस अवसर पर अमृत भारत स्टेशन योजना का भी उल्लेख किया। इस मौके पर रेलवे पर आधारित एक लघु फिल्म का भी प्रदर्शन किया गया। डबल इंजन सरकार करेगी विकासः मुख्यमंत्री सीहोर में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने संबोधित किया। उन्होंने इस अवसर पर वंदे भारत एक्सप्रेस और मेट्रो ट्रेन का उल्लेख किया। उन्होंने नई सौगातों का भी उल्लेख किया। उन्होंने आशा जताई कि डबल इंजन की सरकार देश और प्रदेश का बेहतर विकास करेगी। मप्र के 33 रेलवे स्टेशनों का चयन   उल्लेखनीय है कि देश के 544 रेलवे स्टेशन पुनर्विकास के लिए चुने गए हैं। इसमें मध्य प्रदेश के 33 रेलवे स्टेशनों का पुनर्विकास भी शामिल किया गया है। मध्य प्रदेश में रेल अधोसंरचना के विकास के अंतर्गत वर्तमान वर्ष में 15 हजार 143 करोड़ रुपये की राशि मंजूर की गई है। प्रदेश में 77 हजार 800 करोड़ से अधिक की 32 परियोजनाएं क्रियान्वित हो रही हैं। मध्य प्रदेश के जिन 33 रेलवे स्टेशन का पुनर्विकास के लिए शिलान्यास हुआ है, उनमें जबलपुर और भोपाल रेल मंडल के पांच-पांच स्टेशन शामिल हैं। पुनर्विकास के लिए चयनित स्टेशनों में सीहोर, जबलपुर, बीना, अशोकनगर, खिरकिया, सांची, शाजापुर, ब्यौहारी, बरगवां, नरसिंहपुर, पिपरिया, इंदौर, उज्जैन, मंदसौर, मक्सी, नागदा, नीमच, शुजालपुर, खाचरोद, बालाघाट, छिंदवाड़ा, खंडवा, मंडला फोर्ट, नैनपुर, सिवनी, अनूपपुर, शहडोल, उमरिया, बिजुरी, मुरैना, हरपालपुर, दतिया और भिंड स्टेशन शामिल हैं। आरओबी में जबलपुर रेल मंडल के दो और भोपाल रेल मंडल के चार आरओबी शामिल हैं। अंडरपास के अंतर्गत जबलपुर में एक एवं भोपाल मंडल में दो स्थानों पर कार्य होंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 February 2024

bhopal,Voters ,Lok Sabha elections

भोपाल। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि वर्ष 2024 लोकतंत्र का महापर्व है। इस वर्ष लोकसभा चुनाव में मतदाता लोकतंत्र का भविष्य तय करेंगे। चुनाव को हमने लोकतंत्र का उत्सव और जनसम्पर्क का जरिया माना है। आप सभी प्रबुद्धजनों की जिम्मेदारी भारत के नागरिक के नाते वोट देने के साथ-साथ जनमत बनाने की भी है। जातिवाद, परिवारवाद, तुष्टिकरण और भ्रष्टाचार के पैसों से जनमत प्रभावित नहीं होना चाहिए। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में जनादेश को इन चारों से प्रभावित होने से बचाया गया है। परिवार के हितों की जो बात करते हैं, वह भारत के गरीबों की चिंता नहीं कर सकते हैं।   केंद्रीय गृह शाह रविवार शाम को भोपाल के कुशाभाऊ ठाकरे अंतरराष्ट्रीय कन्वेंशन सेंटर में अमृत काल में राष्ट्रोदय में प्रबुद्धजन की भूमिका एवं विचार कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव, उप मुख्यमंत्री द्वय राजेंद्र शुक्ला एवं जगदीश देवड़ा, पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सहित मंत्रीगण, जनप्रतिनिधि एवं प्रबुद्धजन उपस्थित थे।   गृह मंत्री शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी पर 10 साल में भ्रष्टाचार का कोई आरोप नहीं लगा, लेकिन इसके पहले की विपक्षी सरकार में भ्रष्टाचार चरम पर था। भारत अर्थव्यवस्था के मामले में 10 साल में 11वें नम्बर से विश्व में पांचवें नम्बर पर आ गया है। आगे चलकर तीसरे स्थान तक आ जाएगा। प्रधानमंत्री मोदी ने देश के लिए नई नीतियां बनाई और उन्हें जमीन पर उतारने का कार्य किया है।   उन्होंने कहा कि पूरी समझबूझ के साथ जनादेश बनाएं। हमारी नीतियों में मानवीय संवेदना, महान भारत के विकास का संकल्प है। मोदी जी ने वर्ष 2014 से विकास को ऊंचाईयों तक पहुंचाया है। पूरी दुनिया भारत की ओर देख रही है। हम गौरव महसूस कर रहे हैं।   शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने वर्ष 2014 से 2024 तक साहसी फैसले लिए हैं। जम्मू- कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाया गया, आज हमारा कश्मीर भारत माता का मुकुट मणि बनकर खड़ा है। प्रधानमंत्री मोदी ने पड़ोसी देशों से आए हिन्दू नागरिकों को भारत की नागरिकता देने का कार्य किया है। उनके नेतृत्व में माताओं- बहनों की स्थिति सुधरी है। बैंकिंग के क्षेत्र में नए आयाम गढ़े हैं। नक्सलवाद, आतंकवाद, उग्रवाद अंतिम सांसें गिन रहा है। गरीबों के लिए 11 करोड़ से जयादा शौचालय बनवाए गए हैं। हर परिवार के घर में बैंक एकाउंट, स्वास्थ्य की सुविधाएं और शुद्ध पीने का पानी पहुंचाने का कार्य किया गया है।   उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने कोरोना की आपदा में कुशल नेतृत्व किया। सरकार के साथ 130 करोड़ जनता कोरोना से लड़ी। भारत ने वैक्सीन बनाकर कोरोना को समाप्त किया। विश्व के कई देशों को यह टीका पहुंचाया। वर्ष 2027 तक भारत की पांच ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने सहित कई लक्ष्य रखे हैं। 2036 में ओलंपिक की मेजबानी करने का लक्ष्य है। सांस्कृतिक विरासत को अक्षुण्ण बनाए रखने का कार्य चल रहा है। प्रभु श्रीराम अयोध्या में भव्य मंदिर में विराजे हैं। राजपथ को कर्तव्य पथ में बदला है। उज्जैन में महाकाल लोक बनाया है। 21 जून को विश्व योग दिवस मनाकर भारत में अद्भुत कार्य चल रहा है। पूरे विश्व के कल्याण का रास्ता भारत ही दिखा रहा है। लोकतंत्र को मजबूत किया है। परिवारवाद, जातिवाद, तुष्टिकरण, भ्रष्टाचार से मुक्ति दिलाई है।   केन्द्रीय गृह मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी का देश के लिए जीवन समर्पित है। उनके जीवन में कभी भ्रष्टाचार के आरोप नहीं लगे। भारत को विश्व गुरू के रूप में स्थान बनाए रखेंगे।   कार्यक्रम में मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा कि गृह मंत्री शाह राजा भोज की नगरी में पधारे हैं। मैं उनका हृदय से स्वागत करता हूँ। राजा भोज पुरूषार्थ और पराक्रम से परिपूर्ण थे। उन्होंने अपना विशाल पराक्रम दिखाया और विरोधियों को पराजित किया था। प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में हम निरंतर आगे बढ़ रहे हैं। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में गुड गवर्नेंस के साथ देश का आर्थिक विकास भी हो रहा है। उन्होंने सभी अतिथियों एवं प्रबुद्धजनों का हृदय से स्वागत किया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 February 2024

khajuraho, Narendra Modi ,Amit Shah

खजुराहो। केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि बीते दस साल में नरेन्द्र मोदी ने देश में कई बदलाव किए हैं। ये दस साल भारत के विकास, भारत के 60 करोड़ गरीबों के कल्याण, देश को आतंकवाद से मुक्त कराने, महिला शक्ति को संसद और विधानसभा में 33 फीसदी आरक्षण देकर सम्मान देने के हैं। भारत को महाशक्ति बनाने का यह चुनाव है। भारत को दुनिया में तीसरे नंबर का अर्थतंत्र बनाने का चुनाव है। मैं आज एक बार फिर मध्यप्रदेश की जनता के सामने झोली लेकर आया हूं और अपील करता हूं कि आप इस बार 29 सीटों के कमल मोदी की झोली में डाल दीजिए, हम मध्यप्रदेश और भारत को पूर्ण विकसित बनाएंगे। केन्द्रीय गृह मंत्री शाह रविवार को खजुराहो में आयोजित बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि आज में यहां 23 हजार बूथ कार्यकर्ताओं से बातचीत करने के लिए आया हूं। यह विजय का संकल्प लेने का सम्मेलन है, मोदी के नेतृत्व में 400 से ज्यादा सीटें लेकर सरकार बनाने का संकल्प लेने का सम्मेलन है। अपने बूथ पर कमल खिलाने का संकल्प लें   उन्होंने कहा कि अन्य पार्टियां कई कारणों से चुनाव जीत सकती हैं, लेकिन भाजपा अपने बूथ के कार्यकर्ताओं के दम पर ही चुनाव जीतती है। विधानसभा चुनाव में मिली जीत भी आपके परिश्रम,पसीने और पुरुषार्थ से मिली है। इस बार मोदी ने चार सौ पार का लक्ष्य दिया है और यह लक्ष्य बूथ के कार्यकर्ताओं के बिना हासिल नहीं हो सकता। कार्यकर्ता हर बूथ पर नरेन्द्र मोदी बनकर खड़ा हो। हर कार्यकर्ता चट्टान की तरह अपने बूथ पर खड़े रहकर कमल खिलाने का संकल्प लें।   भाजपा की सरकार ने पूरा किया हर वादा केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि बीते 10 सालों में हमारी सरकार ने हर वादा पूरा किया है। वर्ष 2019 में राहुल बाबा ताना मारते थे, मंदिर वहीं बनाएंगे पर तारीख नहीं बताएंगे। 22 जनवरी 2024 को रामलला पांच सौ साल के बाद भव्य मंदिर में विराजमान हो गए हैं। उन्होंने कहा कि हमने कहा था कि अनुच्छेद 370 को हटाकर रहेंगे, इस देश के अंदर दो निशान, दो विधान, दो प्रधान नहीं रह सकते। हमारा नारा था ’जहां हुए बलिदान मुखर्जी वह कश्मीर हमारा है। मोदी के नेतृत्व में 5 अगस्त, 2019 को अनुच्छेद 370 को समाप्त कर दिया और आज कश्मीर भारत का मुकुटमणि बनकर हमारे सामने है। हमने सेना के रिटायर्ड जवानों को ’वन रैंक, वन पेंशन’ का वादा किया था और मोदी ने ये वादा भी पूरा कर दिया। हमने वादा किया था कि तीन तलाक को समाप्त कर देंगे, मोदी ने मुस्लिम माता-बहनों के कल्याण के लिए ट्रिपल तलाक की प्रथा को भी समाप्त कर दिया। हमने वादा किया था कि विधानसभा और लोकसभा में 33 प्रतिशत आरक्षण माता-बहनों को देंगे, हमारी सरकार ने ये वादा भी पूरा कर दिया। मोदी के शासन में नई संसद बनी, कर्तव्य पथ बना, महाकाल महालोक बना, केदारनाथ धाम, बद्रीनाथ धाम और सोमनाथ का मंदिर बना। काशी विश्वनाथ का गलियारा बना और राम मंदिर पर भी ध्वजा फहरा दी गई।   मोदी सरकार ने बदला गरीबों का जीवन शाह ने कहा कि हमने कहा था कि हम गरीबों के कल्याण के लिए काम करेंगे। हमने 80 करोड़ से ज्यादा गरीबों को प्रतिमाह, प्रति व्यक्ति पांच किलो मुफ्त अनाज देने का काम किया। 12 करोड़ से ज्यादा शौचालय बनाकर माता और बहनों को सम्मान करने का काम किया। चार करोड़ लोगों को घर दिया। 10 करोड़ माताओं को गैस का सिलेंडर दिया, 14 करोड़ परिवारों को नल से जल और 11 करोड़ किसानों को 6 हजार रुपये प्रति वर्ष देने का काम किया। हमारी सरकार 60 करोड़ लोगों को पांच लाख रुपये तक मुफ्त इलाज की सुविधा दे रही है। कांग्रेस करती है देश और सनातन का अपमान उन्होंने कहा कि सोनिया-मनमोहन की सरकार के 10 सालों में आएदिन पाकिस्तान से आलिया, मालिया, जमालिया आते थे और हमला करके भाग जाते थे। उन्हें याद नहीं रहा कि अब मोदी की सरकार है। जब उन्होंने उरी और पुलवामा में हमला किया, तो मोदी की सरकार ने 10 दिन में सर्जिकल और एयर स्ट्राइक करके आतंकवादियों को उनके घर में घुसकर मारने का काम किया। शाह ने कहा कि कांग्रेस ने हमेशा सनातन धर्म का अपमान किया। कांग्रेस ने राजा भोज के नाम पर मेट्रो का विरोध किया, रविदास मंदिर का विरोध किया, मां नर्मदा के जयकारे का विरोध किया और भारतीय संस्कृति को हमेशा अपमानित करने का काम किया लेकिन मोदी भारत तो छोड़िए, यूएई में भी भव्य मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा करके आए हैं।   कांग्रेस और भ्रष्टाचार एक-दूसरे के पर्याय शाह ने कहा कि कांग्रेस और भ्रष्टाचार पर्यायवाची शब्द हैं। कांग्रेस का मतलब भ्रष्टाचार और भ्रष्टाचार का मतलब है कांग्रेस पार्टी। कांग्रेस ने अपने शासन के 10 साल में 12 लाख करोड़ के घपले-घोटाले किये। कोल घोटाला, कॉमनवेल्थ घोटाला, टूजी, आईमेक्स मीडिया, एयरसेल मैक्सिस, जम्मू क्रिकेट एसोसिएशन, एम्ब्रेयर एयर और अगस्ता वेस्टलैंड जैसे कई घोटाले किए। अब मोदी सरकार के 10 साल पूरे होने जा रहे हैं, लेकिन हमारे विरोधी भी मोदी पर एक कानी-पाई का आरोप नहीं लगा सके हैं। मोदी ने पारदर्शी शासन देने का काम किया है। सम्मेलन को मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव और प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने भी संबोधित किया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 February 2024

bhopal, Jitu

भोपाल। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी ने रविवार को प्रदेश कांग्रेस मीडिया विभाग के पदाधिकारियों, प्रवक्तागणों और संभागीय प्रवक्ताओं के साथ लोकसभा चुनाव, भारत जोड़ो न्याय यात्रा, संगठनात्मक गतिविधियों के साथ- साथ मीडिया में पुरजोर तरीके से अपना पक्ष रखने संबंधी विभिन्न मुद्दों बैठक कर चर्चा की।   जीतू पटवारी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी विषम परिस्थितियों के दौर से गुजर रही है। वहीं भारतीय जनता पार्टी ने जिस प्रकार से विभिन्न हथकंडों को अपनाकर सरकार बना ली, उससे जहां एक ओर पार्टी के लाखों-करोड़ों कार्यकर्ताओं का मनोबल टूटा हैं, वहीं दूसरी और प्रदेश की जनता भी इस बात को जरा भी समझ नहीं पा रही है कि विधानसभा चुनाव के जो परिणाम आये हैं वह भाजपा के इतने पक्ष में आयेंगे। उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव हो चुके हैं, लेकिन पार्टी के एक-एक कार्यकर्ता का मनोबल मजबूत करने की जबावदारी हम सभी की है। खासकर मीडिया के माध्यम से बाते जनता तक जाती है वह एक ठोस आधार स्तंभ होता है। हमें विपक्ष की भूमिका अनुशासनात्मक तरीके से पूरी निष्ठा, ईमानदारी और ताकत के साथ निभाना है।     जीतू पटवारी ने मप्र कांग्रेस मीडिया विभाग के साथियों से कहा कि हमें अपना मनोबल बनाये रखना है, मीडिया में अपनी बात पूरी मुखरता के साथ करना है, भाजपा हमें समाप्त करना चाहती है, लेकिन कांग्रेस पार्टी वह पार्टी है जो न तो कभी डरी है न डरेगी। भाजपा कितने ही प्रपोगंडा रच ले, जनता के सामने उसकी हकीकत एक दिन सामने आ ही जायेगी। हमारे प्रवक्ता साथी पूरी दृढ़ता के साथ के साथ भाजपा के जनविरोधी मुद्दों को उठाये। भाजपा ने जो घोषणा पत्र जनता और प्रदेश के विकास को लेकर जारी किया है, हर मुद्दों को मीडिया के माध्यम से पूरी मुस्तैदी से उठायें।     कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि 2 मार्च को माननीय राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा मप्र में प्रवेश कर रही है, हम सभी को यात्रा को सफल और प्रभावी बनाने के लिए अधिकाधिक प्रचार-प्रसार करें। लोकसभा चुनाव के लिए मीडिया के समक्ष अपनी बात रखने के लिए मुद्दों पर चर्चा साथ ही संगठन की गतिविधियों पर भी मुखरता से अपना पक्ष रखें। प्रदेश कांग्रेस मीडिया विभाग के अध्यक्ष के.के. मिश्रा ने पूरी टीम पर विश्वास जताते हुए कहा कि प्रदेश कांग्रेस की मीडिया टीम पूरे जोश के साथ काम कर रही है और आगे भी करती रहेगी। इस अवसर पर बैठक में प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष संगठन प्रभारी राजीव सिंह, मीडिया सलाहकार पीयूष बबेले सहित मीडिया विभाग के पदाधिकारीगण, प्रवक्ता और संभागीय प्रवक्तागण उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 February 2024

bhind, hand grenade , Rashtriya Swayamsevak Sangh

भिंड। जिला मुख्यालय स्थित राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ कार्यालय में शनिवार रात पिन लगा हथगोला मिला। इसकी सूचना मिलने पर रात 12 बजे एसपी डॉ. असित यादव फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। स्निफर डॉग को भी बुलाया गया। रात 2 बजे मुरैना से बम डिस्पोजल टीम पहुंची। हथगोले को जब्त कर लिया गया है और फॉरेंसिक जांच की जा रही है।   प्राप्त जानकारी के अनुसार बजरिया स्थित संघ कार्यालय परिसर के मैदान में जिस जगह ध्वज लगाया जाता है, वहां पर हथगोला मिला। हालांकि उस समय कार्यालय खाली था क्योंकि प्रचारक और विस्तारक बैठक में शामिल होने इंदौर गए हैं। एसपी असित यादव का कहना है कि हथगोला लगभग 30 साल पुराना हो सकता है। उन्होंने बताया कि कुछ रोज पहले संघ कार्यालय में मिट्टी से भराव कराया गया था। मिट्टी भिंड के नजदीक डीडी गांव के पास कुंवारी नदी के बीहड़ से लाई गई थी। पहले यहां फायरिंग रेंज हुआ करती थी। संभवत: बम इसी मिट्टी में दबा होगा और मिट्टी के साथ ही राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के कार्यालय पहुंच गया होगा। फिलहाल बरामद हथगोले और इस घटना की जांच की जा रही है। इधर, संघ कार्यालय में बम मिलने की सूचना पर भिंड विधायक नरेंद्र सिंह कुशवाह भी रात में ही मौके पर पहुंच गए। उन्होंने पूरे मामले की जानकारी ली। विधायक करीब 40 मिनट तक संघ कार्यालय में रहे। यहां उन्होंने प्रत्यक्षदर्शियों और पुलिस से बातचीत की। इसके बाद वापस चले गए।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 February 2024

bhopal, Officers posted, Election Commission

भोपाल। भारत निर्वाचन आयोग ने राज्य सरकारों द्वारा एक ही संसदीय निर्वाचन क्षेत्र के भीतर निकटवर्ती जिलों में अधिकारियों के स्थानांतरण के मामलों को गंभीरता से लिया है। आयोग ने स्थानांतरित अधिकारियों को निष्पक्ष चुनाव कराने के उद्देश्य से उसी लोकसभा क्षेत्र के किसी भी जिले में तैनात नहीं करने संबंधी निर्देश जारी किये हैं। यह जानकारी शनिवार को जनसम्पर्क अधिकारी क्रांतिदीप अलूने ने दी।   उन्होंने बताया कि मौजूदा त्रुटियों को दूर करते हुए भारत निर्वाचन आयोग ने निर्देश दिया है कि दो संसदीय निर्वाचन क्षेत्रों वाले राज्यों, केन्द्र शासित प्रदेशों को छोड़कर सभी राज्य सुनिश्चित करें कि जिन अधिकारियों को जिले से बाहर स्थानांतरित किया गया है, उन्हें उसी संसदीय निर्वाचन क्षेत्र में पदस्थापना नहीं की जाए।   आयोग की स्थानांतरण नीति का अक्षरश: पालन किया जाना चाहिए। वास्तविकता को छिपाया नहीं जाये। यह नियम उन तबादलों और पोस्टिंग पर पहले की तरह लागू होता है, जिन्हें आयोग के पूर्व निर्देशों के अनुसार पहले ही लागू किया जा चुका है।   ईसीआई नीति के अनुसार, उन सभी अधिकारियों को स्थानांतरित करने का निर्देश दिया गया है जो या तो अपने गृह जिले में तैनात थे या एक स्थान पर तीन साल पूरे कर चुके हैं। इसमें वे अधिकारी भी शामिल हैं जो चुनाव कार्य में सीधे या पर्यवेक्षक की है भूमिका में जुड़े हैं।   चुनावी प्रक्रिया में किसी भी प्रकार से ख़लल डालने वाले के ख़िलाफ़, आयोग ने जीरो टॉलरेंस नीति अपनाई है। ग़ौरतलब है कि इसी के तहत, हाल ही में हुए पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों में आयोग ने विभिन्न अधिकारियों, यहाँ तक कि उन राज्यों के वरिष्ठ स्तर के पुलिस अधिकारियों के स्थानांतरण का आदेश दिया था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 February 2024

bhopal ,Ujjain, Chief Minister Dr. Yadav

भोपाल। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने शनिवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश में सांस्कृतिक अभ्युदय का विस्तार हो रहा है। इसी क्रम में उज्जैन में देश का पहला और अनूठा "वीर भारत संग्रहालय" बनेगा। यह संग्रहालय देश के तेजस्वी नायकों की गाथाओं को प्रतिबिंबित करेगा।       मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा कि इस संग्रहालय का एक मार्च को शिलान्यास किया जाएगा। संग्रहालय में देश के तेजस्वी नायकों और सत्पुरुषों की प्रेरक कथाओं, संदेश व चरित्रों का चित्रांकन, उत्कीर्णन, शिल्पांकन, ध्वन्यांकन पारंपरिक और आधुनिक तकनीकों से किया जाएगा।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 February 2024

bhopal,  assembly elections, VD Sharma

भोपाल। विधानसभा चुनाव 2023 में पार्टी ने ऐतिहासिक जीत हासिल की है और भारतीय जनता पार्टी मध्यप्रदेश के हम सभी कार्यकर्ताओं का सौभाग्य है कि इस प्रचंड जीत के शिल्पी और रणनीतिकार केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह रविवार को मध्यप्रदेश दौरे पर आ रहे हैं। विधानसभा चुनाव के बाद अमित शाह का यह पहला मध्यप्रदेश दौरा है। इसके दौरान आधुनिक राजनीति के चाणक्य कहे जाने वाले अमित शाह कार्यकर्ताओं को आने वाले लोकसभा चुनाव में जीत का मंत्र देंगे। उनके इस दौरे को लेकर पार्टी कार्यकर्ता उत्साहित हैं और अमित शाह के स्वागत की तैयारियों में जुटे हैं। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने शनिवार को मीडिया से चर्चा के दौरान कही। हर कार्यकर्ता में जोश भरेंगे केंद्रीय गृह मंत्री   प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि हम सभी ने देखा है कि विधानसभा चुनाव में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने किस प्रकार कार्यकर्ताओं को प्रोत्साहित किया था, जिसके बाद सभी कार्यकर्ता पूरे जोश के साथ हर बूथ पर सक्रिय हो गए थे। यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के मार्गदर्शन का ही परिणाम था कि विधानसभा चुनाव में पार्टी को अभी तक का सर्वाधिक वोट शेयर हासिल हुआ। लोकसभा चुनाव में भी प्रदेश के पार्टी कार्यकर्ताओं को उसी प्रकार अमित शाह का मार्गदर्शन मिलेगा। वीडी शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि यह चुनाव हर बूथ पर लड़ा जाएगा और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से प्रेरणा प्राप्त कर पार्टी कार्यकर्ता हर बूथ पर पूरी तैयारी के साथ काम में जुट जाएंगे।   अंग्रेजों की गुलामी के प्रतीक कानून बदल दिये   वीडी शर्मा ने कहा कि हम सभी ने देखा है कि किस प्रकार देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुगलों और अंग्रेजों की गुलामी के प्रतीकों को समाप्त करने का संकल्प लिया है और वे एक-एक कर इन प्रतीकों से देश को मुक्ति दिला रहे हैं। उसी प्रकार केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी ऐसे सैकड़ों कानूनों को बदल दिया है, जो अंग्रेजों की गुलामी के प्रतीक थे। उन्होंने अंग्रेजों के जमाने की आईपीसी को हटा दिया है और उसके स्थान पर नई दंड संहिता को चलन में लाया गया है।   पहले ग्वालियर, फिर खजुराहो के कार्यकर्ताओं का करेंगे मार्गदर्शन   प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह रविवार को पहले ग्वालियर पहुंचेंगे। यहां पर वे क्लस्टर की चारों लोकसभा की प्रबंध समितियों की बैठक लेंगे और कार्यकर्ताओं का मार्गदर्शन करेंगे। इसके उपरांत गृह मंत्री अमित शाह सागर क्लस्टर के खजुराहो पहुंचेंगे और खजुराहो लोकसभा क्षेत्र के सभी 2293 बूथों की बूथ समितियों के कार्यकर्ताओं के सम्मेलन को संबोधित करेंगे। वीडी शर्मा ने कहा कि केंद्रीय गृहमंत्री बूथ के कार्यकर्ताओं को पार्टी की ताकत कहते हैं और ये खजुराहो तथा बुंदेलखंड के सभी कार्यकर्ताओं के लिए सौभाग्य की बात है कि केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह उनका मार्गदर्शन करेंगे। प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि पार्टी कार्यकर्ताओं ने जो परिश्रम किया है, उससे बुंदेलखंड क्षेत्र से कांग्रेस पहले ही मैदान छोड़कर भाग चुकी है और सपा का कोई अस्तित्व नहीं रह गया है। ऐसे में अमित शाह का प्रेरक मार्गदर्शन पाकर पार्टी कार्यकर्ता हर बूथ जीतने और हर बूथ पर 10 प्रतिशत वोट बढ़ाने के लक्ष्य को हासिल करने में सफल होंगे।   स्व. कुशाभाऊ ठाकरे की प्रतिमा का अनावरण, प्रबुद्धजनों से संवाद करेंगे गृहमंत्री   प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि खजुराहो से केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भोपाल आएंगे और यहां पुराना मिंटो हॉल, जिसे भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने कुशाभाऊ ठाकरे इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर का स्वरूप दिया है, में स्थापित पार्टी के पितृ पुरुष स्व. कुशाभाऊ ठाकरे की प्रतिमा का अनावरण करेंगे। इसके उपरांत केंद्रीय गृहमंत्री समाज के प्रबुद्धजनों तथा समाज के विभिन्न क्षेत्रों में महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वाह कर रहे प्रमुख नागरिकों के साथ संवाद करेंगे। इस दौरान शाह उन्हें बताएंगे कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी किस प्रकार आगे बढ़ रही है। साथ ही आजादी के अमृतकाल में 2047 तक भारत को विकसित बनाने के प्रधानमंत्री जी के संकल्प के संबंध में प्रबुद्धजनों से चर्चा करेंगे, उनके सुझाव लेंगे।   कांग्रेस का चरित्र दोहरा   प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने एक प्रश्न का जवाब देते हुए कहा कि जीतू पटवारी भगवान श्री राम की यात्रा निकालने से पहले पार्टी नेता दिग्विजय सिंह, सोनिया जी और राहुल जी से तो पूछ लें, क्या उन्होंने इसके लिए ओके कर दिया है? वीडी शर्मा ने कहा कि जीतू पटवारी को पहले यह पता कर लेना चाहिए कि उनकी पार्टी की नीतियां क्या हैं, पार्टी चाहती क्या है, तब आगे बढ़ें। कांग्रेस के दोहरे चरित्र को देश और प्रदेश की जनता जानती है, लेकिन जो नए लोग पार्टी में आए हैं, उन्हें तो दोहरा चरित्र नहीं रखना चाहिए। वीडी शर्मा ने कहा कि भगवान श्री रामलला की प्राण प्रतिष्ठा किसी राजनीतिक दल का काम या पॉलीटिकल आयोजन नहीं था, लेकिन कांग्रेस ने इसके आमंत्रण को ठुकरा दिया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 February 2024

bhopal,Jeetu Patwari , Bhadbhada Basti

भोपाल। एनजीटी के आदेश पर भदभदा झुग्गी बस्ती में बचे हुए मकानों को गिराने का काम जारी है। इसी बीच प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी शनिवार को भदभदा बस्ती पहुंचे और प्रभावित परिवारों से मिले। उन्होंने कहा कि जिन लोगों के घर तोड़े गए हैं, उन्हें प्रधानमंत्री आवास दिए जाना चाहिए। भोपाल की भदभदा झुग्गी बस्ती में 3 दिन में करीब 268 घरों पर बुलडोजर चल चुके हैं। अब 118 घर और बचे हैं, जिन्हें आज हटाया जा रहा है। 500 से ज्यादा पुलिसकर्मियों के साये में चल रही कार्रवाई के चलते एक किलोमीटर दूर बैरिकेडिंग करके रास्ता रोक दिया गया है। इसी बीच प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी भदभदा बस्ती पहुंचे और प्रभावित परिवारों से बात की। उन्होंने कहा कि यह सरकार उद्योगपति, धन्नासेठों और सूटबूट की है। कम से कम इन गरीबों को एक-एक प्रधानमंत्री आवास तो मिलना ही चाहिए। मैं इसके लिए मुख्यमंत्री को चिट्ठी लिखूंगा। उन्होंने कहा कि ऐसा हम फिल्मों में देखते थे, कि एक होटल नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल की परिधि में आती थी, लेकिन उस पर कोई कार्रवाई नहीं होती। उन्होंने कहा कि जो परिवार यहां रहते थे, उनको पीएम आवास मिलना चाहिए।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 February 2024

bhopal, Investment ,Chief Minister Dr. Yadav

भोपाल। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा कि रीजनल इंडस्ट्री कॉनक्लेव, विक्रमोत्सव और विक्रम व्यापार मेले की तैयारियों में गति लाएं। सुनियोजित और सुव्यवस्थित ढंग से समस्त आयोजन किए जाएं। उन्होंने कहा कि रीजनल इंडस्ट्री कॉन्क्लेव अर्थात समिट के माध्यम से औद्योगिक विकास के लिए निवेश को प्रोत्साहन मिलेगा। उज्जैन सहित पूरे प्रदेश के औद्योगिक क्षेत्रों को समिट का लाभ मिलेगा।     मुख्यमंत्री डॉ. यादव शुक्रवार को उज्जैन के स्मार्ट सिटी कार्यालय में रीजनल इंडस्ट्री कॉन्क्लेव, विक्रमोत्सव और विक्रम व्यापार मेले की तैयारियों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रदेश में औद्योगिक विकास की बहुत संभावनाएं हैं। इन्हें साकार किया जाएगा। आगामी एक और दो मार्च को उज्जैन की इन्वेटर्स समिट के आधार पर पूरे प्रदेश में अलग-अलग क्षेत्र के उद्योगों की स्थापना की संभावनाएं प्रबल होंगी। विभिन्न क्षेत्रों में निवेश को आमंत्रित करने के लिए यह समिट हो रही है। इंडस्ट्रियल समिट के बेहतर आयोजन के लिए अन्य संभावनाएं भी तलाशें।     उन्होंने कहा कि राजा विक्रमादित्य न्याय के प्रतीक थे। विक्रमोत्सव में न्याय पर आधारित कार्यक्रम को भी शामिल किया जाएं। होली के अवसर पर भव्य गैर का भी आयोजन किया जाए। उन्होंने कहा कि उज्जैन की कोठी पैलेस के संबंध में विस्तृत कार्ययोजना तैयार कर पैलेस को स्वावलंबी बनाएं। कॉन्फ्रेंस हॉल, रूफटॉप रेस्टोरेंट, सुविधाजनक पार्किंग व्यवस्था भी प्लान करें।     बैठक में कलेक्टर नीरज कुमार सिंह ने पावर प्वाइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से कार्यक्रमों की रूपरेखा के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार एक मार्च को प्रातः 10: 30 बजे कालिदास अकादमी, उज्जैन में मुख्यमंत्री डॉ. यादव के मुख्य आतिथ्य में रीजनल इंडस्ट्री कॉन्क्लेव, विक्रमोत्सव और विक्रम व्यापार मेला, विक्रमादित्य वैदिक घड़ी का लोकार्पण एवं वीर भारत संग्रहालय का शिलान्यास कार्यक्रम होगा। कार्यक्रम की तैयारियां अंतिम चरण में है।     उन्होंने बताया कि उज्जैन में उज्जयनी विक्रम व्यापार मेले के मुख्य आकर्षणों गैर परिवहन वाहनों तथा छोटे परिवहन वाहनों पर पंजीयन शुल्क एवं रोड टैक्स में 50 प्रतिशत की छूट,इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों, विभिन्न कम्पनियों के गैर परिवहन वाहनों एवं परिवहन वाहनों, गारमेन्टस एवं अन्य उपकरणों का उचित मूल्य पर विक्रय विशिष्ट व्यंजनों से संबंधित स्टॉल्स शामिल हैं। सांस्कृतिक एवं मनोरंजन कार्यक्रम भी होंगे। मेले में कृषि एवं संबद्ध क्षेत्र और कुटीर एवं ग्रामोद्योग के संबंध में भी जानकारी दी जाएगी। उज्जयनी विक्रम व्यापार मेले के अंतर्गत ऑटोमोबाइल्स इलेक्ट्रॉनिक्स एवं फूड जोन का कार्यक्रम दशहरा मैदान, व्यवसायिक दुकानें, ऑटोमोबाइल्स झूला एवं फूड जोन पीजीबिटी मैदान तथा सांस्कृतिक कार्यक्रम कालिदास अकादमी त्रिवेणी संग्रहालय एवं पॉलिटेक्निक मैदान में प्रस्तावित किए गए हैं। उज्जैन व्यापार मेला में भाग लेने वाले प्रमुख ऑटोमोबाइल्स इलेक्ट्रॉनिक्स कंपनियों में प्रमुख रूप से महिंद्रा, टाटा मोटर्स, हुंडई, यामाहा, नेक्सा, रॉयल एनफील्ड, हीरोहोंडा, सैमसंग, पैनासोनिक, एचपी,डेल मारुति सुजुकी आदि शामिल हैं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 February 2024

bhopal, Railway-NDRF,Sukhi Sevaniya station

भोपाल। रेलवे बोर्ड के निर्देशानुसार भोपाल रेल मंडल और एनडीआरएफ की टीम ने शुक्रवार को सूखी सेवनिया स्टेशन पर दुर्घटना राहत एवं बचाव कार्यों का संयुक्त अभ्यास किया। शुक्रवार को को सूखीसेवनिया रेलवे स्टेशन की गुड्स साईडिंग में डिजास्टर मैनेजमेन्ट की तैयारियों को परखने हेतु एक ज्वाइंट फुल स्केल एक्सरसाईज़ की गई, जिसमें मंडल रेल प्रबंधक देवाषीष त्रिपाठी एवं प्रमुख मुख्य संरक्षा अधिकारी जबलपुर प्रभात कुमार के मार्गदर्शन में रेलवे अधिकारियों/कर्मचारियों तथा एनडीआरएफ के चीफ रवि सिंह के नेतृत्व मे एनडीआरएफ की टीम ने भाग लिया।                                                 इस एक्सरसाईज़ में दो कोचो को जिसमें एक एसी-2 टायर कोच तथा एक जीएस कोच को लेकर दुर्घटना का दृश्य बनाया गया। एसी कोच को डिरेल किया गया, तथा जीएस कोच को उसके उपर रखा गया, इन कोचों में रेलवे के सांस्कृतिक अकादमी के कलाकारों एवं सिविल डिफेंस के सदस्यों को घायल एवं हताहत यात्रियों के रूप में रखा गया था। दुर्घटना राहत एवं बचाव अभ्यास की शुरुआत 12.10 बजे हुई जब गार्ड द्वारा सूखीसेवनिया स्टेशन को सूचना दी गई कि एक यात्री गाड़ी दुर्घटनाग्रस्त हो गई है, जिसमें कई यात्रियों के हताहत होने की आशंका है, सूखी सेवनिया स्टेशन मास्टर ने तुरंत यह सूचना रेलवे कंट्रोल रूम को दी एवं कंट्रोल रूम ने हूटर (सायरन) बजा कर भोपाल रेलवे स्टेशन की दुर्घटना राहत गाड़ी एवं चिकित्सा यान को सूखीसेवनिया स्टेशन के लिये रवाना किया। दुर्घटना राहत गाड़ी के आते हो रेलवे एवं एनडीआरएफ ने संयुक्त रूप से खिड़कियों को काटकर, एसी कोच की खिड़कियों के कॉच को तोड़कर एवं छत को काटकर यात्रियों को रस्सी एवं स्ट्रेचर की सहायता से बाहर निकाला, यहाॅ पर यह उल्लेखनीय है कि बोगी के नीचे फंसे यात्रियों को एयरबैग से लिफ्ट करके निकाला गया, दुर्घटना राहत चिकित्सा यान के साथ आई डॉक्टरों की टीम ने घायल यात्रियों को उपचार देने एवं एंबुलेंस से अस्पताल रवाना करने का अभ्यास किया, एसडीआरएफ के चीफ चेतन कन्नौजी भी अपनी टीम के साथ इस अभ्यास में उपस्थित हुये। स्टेशन से सूचना प्राप्त होते ही सिविल प्रशासन भी सक्रिय हो गया एवं कुछ ही देर में जीआरपी थाने और सूखसेेवनिया थाने के इन्चार्ज अपने-अपने कान्सटेबलों सहित, तहसीलदार, पटवारी, सरपंच इत्यादि सिविल अथार्टीज़ का पार्टिसिपेशन हुआ एवं इनके अलावा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवकों ने घटनास्थल पर पहुंचकर संयुक्त अभ्यास में भाग लिया। जे.पी हास्पिटल के डाक्टरों एवं उनकी मेडिकल टीम, रेडक्राॅस संस्था के डाॅक्टरों एवं उनकी मेडिकल टीम, 108 एंबुलेंस तथा स्थानीय डॉक्टर भी घटना स्थल पर पहुंचे तथा उनकी सहभागिता भी इस संयुक्त अभ्यास में हुई। मंडल रेल प्रबंधक भोपाल एवं प्रमुख मुख्य संरक्षा अधिकारी जबलपुर ने माॅक अभ्यास के बाद में एनडीआरएफ के उपकरणों का निरीक्षण किया एवं रेलवे की दुर्घटना राहत गाड़ी का भी निरीक्षण किया तथा भाग लेने वाले सभी सदस्यों से भेंट की। इस संयुक्त अभ्यास में रेलवे द्वारा ड्रोन कैमरे की सहायता से पूरे दुर्घटना स्थल की वीडियोग्राॅफी भी की गई। इस फुल स्केल एक्सरसाइज के दौरान मंडल रेल प्रबन्धक देवाषीष त्रिपाठी तथा भोपाल मंडल के वरिष्ठ रेल अधिकारी, डॉक्टर्स, रेल इंजीनियर्स, सुपरवाइजर्स, सांस्कृतिक एकेडमी के कलाकार एवं सिविल डिफेंस के कार्यकर्ताओं ने भी भाग लिया। पूरे अभ्यास के दौरान सभी विभागों के बीच सामंजस्य का कार्य वरिष्ठ मंडल संरक्षा अधिकारी रवीन्द्र शर्मा ने किया। संयुक्त दुर्घटना अभ्यास का समापन सफलता पूर्वक 13.00 बजे संपन्न हुआ।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 February 2024

anuppur, elephant attack, angry villagers

अनूपपुर। जिले के जैतहरी वन परिक्षेत्र गोबरी के जंगल में हाथी ने गुरुवार देर शाम एक 50 वर्षीय ग्रामीण को कुचल दिया, जिसकी उसकी मौके पर ही मौत हो गई। इस घटना से नाराज ग्रामीणों एवं परिजनों वन विभाग की टीम पर हमला कर दिया, जिसके पर रेंजर ने ग्रामीणों पर फायरिंग कर दी। इससे दो लोगों को गोली लगी है, स्थिति नियंत्रण में बताई जा रही है।     जानकारी अनुसार छत्तीसगढ़ से आए हाथियों का दल डेढ़ माह से जिले में उत्पात मचाते हुए किसानों के कच्चे माकान व फसल को नुकसान पहुंचा रहा है। गुरुवार की रात एक हाथी जंगल से निकल कर खेतों में लगी गेहूं की फसल को अपना आहार बना रहा था, तभी ग्रामीण उसे भगाने के लिए प्रयत्न करने लगे। इसी दौरान गुस्साया हाथी ग्रामीणों के पीछे दौड़ा और पगना गांव के 50 वर्षीय ज्ञानचंद गौड़ को पकड़ कर दबा दिया, जिससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई। इसके बाद गुस्साये ग्रामीणों ने वनविभाग एवं पुलिस पर पथराव करते हुए घायल कर दिया। इस हमले में पुलिस व वनकर्मियों को आई चोट। कई शासकीय वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया। नाराज ग्रामीणों देर रात तक विरोध करते रहे। घटना की सूचना पर मौके में कलेक्टर आशीष वशिष्ठ, पुलिस अधिक्षक जितेंद्र सिंह पवार, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शिव कुमार सिंह एवं अनुविभागीय अधिकारी अनूपपुर सुमित केरकेट्टा सहित पूरा प्रशासनिक अमला मौके पर पहुंचा। ग्रामीणों को समझाईस देकर मामले को शांत कराया। हमले में जैतहरी थाने में पदस्थ आरक्षक राहुल चौहान घायल हो गए, जिसे इलाज के लिए जैतहरी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया।     जवाबी कार्रवाई में पुलिस द्वारा चलाई गई गोली ग्रामीण राम प्रसाद और केशव को लगी। एक ग्रामीण के हाथ और दूसरे के सीने में लगी है। जिन्हें इलाज के लिए जिला चिकित्सालय अनूपपुर के बाद शहडोल मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया। वहीं दोनो स्वस्थ है घायलो में मृतक का पुत्र अंतिम संस्कार के लिए ग्राम में पहुंच चुका हैं वहीं दूसरे घायल सीने में गोली लगी थी वह भी पूरी तरह स्वस्थ है। कलेक्टर ने दोनों घायलों से बातचीत कर हाल-चाल जाना।     कलेक्टर आशीष वशिष्ठ ने बताया कि गुरुवार की रात घटना के बाद अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक शहडोल डीसी सागर एवं सीसीएफ शहडोल रात में ही मौके पर पहुंच गए थे, जहां ग्रामीणों को समझाई के बाद मामला शांत हो गया। मृतक का शव शुक्रवार की सुबह पोस्टमार्टमम के बाद अंतिम संस्कार के लिए परिजनों को सौंप दिया गया। उन्होंने वनविभाग द्वारा शासन अंतिम संस्कार हेतु राशि के साथ आठ लाख रुपये का चेक परिजनों को दे दिया है। कलेक्टर ने बताया कि एडीजीपी ने रात में ही इस घटना के जांच के लिए चार सदस्यीय दल अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शिव कुमार सिंह के नेतृत्व में गठित कर दिया है, जो दोनों पक्षों से बातचीत कर शीध्र जांच सौंपेगा। शुक्रवार को बांधवगढ़ की रेस्क्यू टीम हाथी का रेस्क्यू कर बांधवगढ़ ले जायेगी। रेस्क्यू टीम अनूपपुर पहुंच कर रेस्क्यू की कार्यवाई शुरू कर दी है।   कांग्रेस जिला अध्यक्ष पहुंचे मौके पर अनूपपुर जिला कांग्रेस अध्यक्ष रमेश सिंह शुक्रवार को पीड़ित के परिवारजनों से मिलकर उन्हें सत्वंना देते हुए मांग की परिवार की एक सदस्य को नौकरी के साथ उचित मुआवजा व गोली चलाने वाले व्यक्ति पर मामला दर्ज करने की मांग की है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 February 2024

bhopal,  Bhadbhada slum, PC Sharma

भोपाल। भदभदा झुग्गी बस्ती पर प्रशासन का बुलडोजर एक्शन तीसरे दिन शुक्रवार को भी जारी है। आज 129 घरों को गिराया जाना है, जिसके लिए प्रशासन और नगर निगम की टीम ने सभी तैयारियां कर ली हैं। इधर, परीक्षाओं के दौरान प्रशासन की इस कार्रवाई के खिलाफ कांग्रेस नेता व पूर्व मंत्री पीसी शर्मा ने मानव अधिकार आयोग जाने की बात कही है।   भोपाल में होटल ताज के ठीक सामने भदभदा बस्ती में चल रही कार्रवाई के दौरान बीते दो दिनों में 139 घर हटा दिए गए हैं। आज तीसरे दिन शुक्रवार को 129 घर और गिराए जाने हैं। लोगों से सहमति लेकर उनके घरों को गिराया जा रहा है। नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने 386 घरों को हटाने के आदेश दिए थे। कार्रवाई के दौरान कोई हंगामा न हो, इसके लिए पुलिस ने बस्ती से 1 किलोमीटर पहले बैरिकेडिंग कर रास्ता रोक रखा है। पुलिस के 500 जवान तैनात हैं। घरों को तोड़ने के लिए 10 जेसीबी लगाई गई हैं। कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह ने बताया कि कार्रवाई अभी दो दिन और चलेगी। बस्ती से अब 247 घर और हटाए जाएंगे। इनमें से 129 ने शुक्रवार को अपने घर खाली करने की सहमति दी है। कलेक्टर ने बताया कि सभी को मुआवजा दिया गया है। शिफ्टिंग के लिए निगम की गाड़ियां उपलब्ध कराई गई हैं। कुछ लोगों को चांदपुर बैरसिया इलाके में जमीन के पट्टे तो बाकी को एक लाख रुपये की मुआवजा राशि या प्रधानमंत्री आवास का ऑप्शन दिया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 February 2024

bhopal, Chief Minister ,expressed grief

भोपाल। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने अनूपपुर जिले के ग्राम पंचायत गोबरी में गुरुवार रात हाथी के हमले से युवक के निधन पर गहन शोक व्यक्त करते हुए ईश्वर से दिवंगत आत्मा की शांति एवं परिजनों को यह गहन दु:ख सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना की है। साथ ही जिला प्रशासन को घटना में अन्य दो घायल युवकों के समुचित उपचार के निर्देश दिए हैं।       मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने शुक्रवार को सोशल मीडिया पर कहा कि " मृतक के परिजनों को वन विभाग के नियमों के अनुरूप आठ लाख रुपये और मुख्यमंत्री स्वेच्छानुदान अनुदान से दो लाख रुपये की सहायता राशि प्रदान करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि परिवार के जीविकोपार्जन हेतु शासन द्वारा हर संभव मदद की जाएगी।"

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 February 2024

vidisha, speeding truck , one dead

विदिशा। मध्य प्रदेश में रफ्तार का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। आए दिन होने वाले सड़क हादसों में लोग अपनी जान गंवा रहे है। ताजा मामला विदिश जिले के गंजबसौदा का है। यहां गुरुवार को एक तेज रफ्तार ट्रक अनियंत्रित होकर पलट गया। हादसे में एक युवक की मौत हो गई, जबकि दो अन्य लोग घायल हुए है। घायलों को ईलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।   जानकारी अनुसार तेज रफ्तार ट्रक विदिशा की तरफ से आ रहा था। इस दौरान जैसे ही चालक ने अम्बा नगर चौराहे पर सिरोंज की तरफ मोड़ा वैसे ही ट्रक पलट गया। इस दौरान वहां सड़क किनारे खड़ा 31 वर्षीय धर्मेंद्र चिडार की ट्रक के नीचे दबकर मौत हो गई है। जबकि60 बर्षीय गणेशराम अहिरवार और एक अन्य घायल हो गए। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। ट्रैक्टर व अन्य साधनों की सहायता से ट्रक को हटाया गया। तब ट्रक के नीचे दबे दो लोगों को बाहर निकालकर एंबुलेंस के माध्यम से शासकीय अस्पताल भेजा गया। डॉक्टरों ने धर्मेंद्र को मृत घोषित कर दिया, वहीं बुजुर्ग गणेशराम और एक अन्य को प्राथमिक उपचार के बाद जिला चिकित्सालय रेफर किया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 February 2024

bhopal, E-Municipality  Madhya Pradesh

भोपाल। प्रदेश में नगरीय क्षेत्रों में डिजिटल इण्डिया को बढ़ावा देने के लिये शहरी क्षेत्र के स्थानीय निकायों में ई-नगरपालिका योजना नगरीय विकास विभाग द्वारा संचालित की जा रही है। इसका मकसद पारदर्शी एवं त्वरित गति से शहरी क्षेत्र के नागरिकों को सेवा प्रदान करना है। परियोजना में समस्त नागरिक सेवाओं, जन-शिकायत सुविधा, निकायों की आंतरिक कार्य-प्रणाली, समस्त भुगतान एवं बजट प्रक्रिया को एकीकृत कर ऑनलाइन सुविधा प्रदाय की जा रही है। यह जानकारी गुरुवार को जनसम्पर्क अधिकारी मुकेश मोदी ने दी।     उन्होंने बताया कि मध्यप्रदेश ऐसा पहला राज्य है, जहाँ प्रदेश के समस्त नगरीय निकायों की सुविधाओं को एक सिंगल पोर्टल पर लाया गया है। राज्य के सभी नगरीय निकायों में नागरिक सेवा देने के लिये एकीकृत एकल एसएपी ईआरपी प्लेटफार्म आधारित परियोजना शुरू की गई है। ई-नगरपालिका द्वारा ऑनलाइन की गई नागरिक सेवाओं का लाभ दिये जाने के लिये www.mpenagarpalika.gov.in और MP e-Nagarpalika Citizen App mobileapp का उपयोग किया जा रहा है।     उन्होंने बताया कि ई-नगरपालिका में डिजिटल भुगतान को बढ़ावा देने के लिये भारत बिल पेमेंट सिस्टम की सेवा प्रारंभ की गई है। अब नागरिक यूपीआई एप्लीकेशन (PhonePay, Google Pay, Paytm) के माध्यम से अपना सम्पत्ति कर तथा जल उपभोक्ता प्रभार का भुगतान कर सकते हैं। नगरीय विकास विभाग ने बेहतर नागरिक सेवा देने के लिये ई-नगरपालिका में Whatsapp ChatBot की सेवा भी प्रारंभ की है। नगरीय निकायों की आंतरिक व्यवस्था को भी ई-नगरपालिका के अंतर्गत सम्पूर्ण रूप से कम्प्यूटराइज्ड किया गया है। सभी प्रकार के भुगतान डिजिटल हस्ताक्षर द्वारा अनुमोदित किये जाने के प्रावधान को अनिवार्य किया गया है।     प्रदेश के नगरीय निकायों में पारदर्शिता को बढ़ावा देने के लिये समस्त बजट एवं वित्तीय प्रबंधन कार्यों को ई-नगरपालिका में एकीकृत कर, अब संचालनालय स्तर से निकायों को दिये जाने वाले अनुदानों का भुगतान ई-नगरपालिका के माध्यम से किया जा रहा है। मध्यप्रदेश में ई-नगरपालिका बेहतर बजटिंग और ई-गवर्नेंस का बेहतरीन उदाहरण है। शहरी क्षेत्र के स्थानीय निकायों के समस्त अधिकारियों और कर्मचारियों के डेटा को भी कम्प्यूटराइज्ड किया गया है। कार्यरत अमले के मानदेय का भुगतान भी ई-नगरपालिका द्वारा ही किया जा रहा है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 February 2024

ujjain, Five star category ,Mahakal temple

उज्जैन। देश के 12 ज्योतिर्लिंग में से एक महाकालेश्वर मंदिर में हजारों श्रद्धालुओं का तांता लगा रहता है। यहां आने वाले श्रद्धालुओं के लिए अब एयरपोर्ट की तर्ज पर पांच सितारा श्रेणी के सुलभ शौचालय की सुविधा मिलेगी। महाकाल मंदिर प्रबंध समिति द्वारा 1.5 करोड़ रुपये की लागत से 7000 वर्गफीट में पांच सितारा श्रेणी का सुविधाघर का निर्माण किया जा रहा है। जो एयरपोर्ट पर बनने वाले सुविधाघर की तर्ज पर साफ, हाईटेक सुविधाओं से सज्जित रहेगा। इस सुविधाघर का 48 महिलाएं व 148 पुरुष एक साथ उपयोग कर सकेंगे।     ये सुविधाएं मिलेंगी सुविधाघर में 12 वेस्टर्न टॉयलेट और 6 इंडियन टॉयलेट बनेंगे। पहला निर्माण 7000 हजार स्कवेयर फ़ीट और दूसरा बड़े गणेश मंदिर के पास में भी 2400 स्कवेयर फ़ीट में टॉयलेट का निर्माण किया जा रहा है।महाकाल महालोक, शिखर दर्शन और टनल से बाहर निकलने वाले भक्तों को इस सुविधा का लाभ मिल सकेगा। इसमें हाथ धोने, सुखाने के लिए भी मशीनें लगाई जाएंगी। पूरे सुविधाघर में सिरेमिक का काम किया जाएगा।     महिलाओं के लिए खास वहीं महाकालेश्वर मंदिर में आने वाले श्रद्धालुओं में छोटे बच्चे और कुछ महिलाएं ऐसी होती हैं जिनके पास छोटे बच्चे होते हैं। इसमें माताओं द्वारा बच्चे के दुग्धपान कराने के लिए भी एक रूम तैयार किया जा रहा है। महाकाल मंदिर समिति की ओर से इस निर्माण कार्य को 3 महीने में पूरा करने की बात कही जा रही है। इससे श्रद्धालुओं को इसका भरपूर उपयोग करने के लिए मिलेगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 February 2024

bhopal, three thousand ,health department.

भोपाल। मध्य प्रदेश में स्वास्थ्य विभाग में तीन हजार 323 पदों पर नियुक्तियां की जा रही हैं। उप मुख्यमंत्री राजेंद्र शुक्ल ने बुधवार को विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि स्वास्थ्य विभाग में विभिन्न पदों के लिए चयनित अभ्यर्थियों को दस्तावेजों के परीक्षण एवं मेडिकल जांच में किसी भी प्रकार की असुविधा न हो। सभी संबंधित अधिकारी संवेदनशीलता से कर्तव्यों का निर्वहन करें।     उल्लेखनीय है कि कर्मचारी चयन मंडल द्वारा गत 12 फरवरी को घोषित परिणाम के अनुक्रम में स्वास्थ्य विभाग में तीन हज़ार 323 पदों पर नियुक्ति की जा रही है। इनमें ए.एन.एम. के दो हज़ार 576, रेडियोग्राफर तृतीय श्रेणी के 104, प्रयोगशाला तकनीशियन के 228, फार्मासिस्ट ग्रेड-2 के 415 पद शामिल हैं।     29 फरवरी को पात्र अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र सिंगल क्लिक के माध्यम से स्वास्थ्य आयुक्त डॉ सुदाम खाड़े ने बताया कि प्रयोगशाला तकनीशियन तथा रेडियोग्राफर के नियुक्ति आदेश संभागीय क्षेत्रीय संचालक द्वारा तथा ए.एन.एम. व फार्मासिस्ट ग्रेड-2 के नियुक्ति आदेश मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा जारी किया जाना है। भोपाल में 29 फरवरी को आयोजित समारोह में पात्र अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र सिंगल क्लिक के माध्यम से प्रेषित किये जाएंगे। इसके लिये चयनित अभ्यर्थियों के दस्तावेजों का परीक्षण तथा मेडिकल करवाया जाना आवश्यक होगा।     सभी ज़िला चिकित्सालय और संभागीय मुख्यालय में लगाये जाएँगे विशेष शिविर स्वास्थ्य आयुक्त डॉ. खाड़े ने बताया कि चयनित अभ्यर्थियों के मेडिकल तथा दस्तावेजों का परीक्षण के लिए जिला अस्पतालों में प्रातः 9 से शाम 5 बजे तक विशेष शिविर लगाये जाएंगे। ए.एन.एम. उम्मीदवारों का जिला चिकित्सालयों में 22 से 26 फरवरी, फार्मासिस्ट ग्रेड-2 का जिला चिकित्सालयों में 23 से 25 फरवरी, रेडियोग्राफर उम्मीदवारों का संभागीय मुख्यालय के जिला चिकित्सालय में 24 फरवरी को और प्रयोगशाला तकनीशियन का संभागीय मुख्यालय के जिला चिकित्सालय में 25 फरवरी को मेडिकल जाँच और दस्तावेजों का परीक्षण किया जाएगा।     उन्होंने बताया कि जिला चिकित्सालयों में मेडिकल जांच की जिम्मेदारी सभी सिविल सर्जन सह मुख्य अस्पताल अधीक्षक की होगी। क्षेत्रीय संचालक, स्वास्थ्य तथा मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी दस्तावेजों की जांच के लिए समुचित अमले की व्यवस्था करेंगे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 February 2024

bhopal, No scheme , Chief Minister Dr. Yadav

भोपाल। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा कि बहन-बेटियों के कल्याण के लिए जारी कोई योजना बंद नहीं होगी। लाड़ली बहना योजना में मार्च माह की किस्त पहली तारीख को बहनों के खाते में जारी कर दी जाएगी। मैं अपने आपको मुख्यमंत्री नहीं, जनता का मुख्य सेवक मानता हूँ। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी देश के प्रधानसेवक हैं और मैं मुख्यसेवक के रूप में प्रदेश के विकास और जनकल्याण को समर्पित हूँ।     मुख्यमंत्री डॉ. यादव बुधवार को बालाघाट में रोड-शो के बाद जनसभा को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर उन्होंने 650 करोड़ रुपये लागत की हिंदुस्तान ग्रीन एनर्जी लिमिटेड और हिन्दुस्तान टेप्स प्राइवेट लिमिटेड औद्योगिक इकाइयों का भूमिपूजन तथा बालाघाट जिले के 761 करोड़ रुपये के विकास कार्यों का लोकार्पण और भूमिपूजन किया। उन्होंने विभिन्न योजनाओं के हितग्राहियों को हितलाभ भी वितरित किए। कार्यक्रम में सासंद ढाल सिंह बिसेन, पूर्व मंत्री गौरीशंकर बिसेन और रामकिशोर कांवरे एवं जनप्रतिनिधि उपस्थित थे। मुख्यमंत्री डॉ.यादव ने उपस्थित जनसमुदाय को माताओं- बहनों का सम्मान-गरीबों की सेवा करने और प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में प्रदेश के विकास के लिए प्रतिबद्ध रहने का संकल्प दिलवाया। उन्होंने हितग्राहियों से संवाद भी किया।     मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी डबल इंजन की सरकार तेज गति से विकास को समर्पित है, इसी का प्रमाण है कि बड़ी संभावना वाले बालाघाट जिले में अनेक विकास कार्यों का भूमिपूजन और लोकार्पण हो रहा है। उन्होंने विकास की इस प्रक्रिया में बालाघाट वासियों से सहयोगी बनने का आव्हान किया।     सागर में होगा रानी अवंतीबाई लोधी के नाम पर विश्वविद्यालय का लोकार्पण उन्होंने कहा कि जनजाति क्षेत्र में कोदो-कुटकी के उत्पादन को प्रोत्साहित किया जा रहा है। पहले मंत्री परिषद की बैठक में रानी अवंती बाई और रानी दुर्गावती के नाम पर पुरस्कार की घोषणा की गई है। हमारा अतीत गौरवशाली है। गोंडवाना क्षेत्र में रानी दुर्गावती ने स्वाभिमान और आत्मसम्मान को डिगने नहीं दिया। सागर में शीघ्र ही रानी अवंतीबाई लोधी के नाम पर विश्वविद्यालय का लोकार्पण किया जाएगा।     देश में संभावनाओं के आधार पर विकास और भावनाओं पर हो रहा सनातन संस्कृति का सम्मान डॉ. यादव ने कहा कि सनातन संस्कृति में वनवासियों को साथ लेकर, प्राणी मात्र से प्रेम करते हुए भगवान श्रीराम ने आदर्श पुत्र और आदर्श शासक का उदाहरण स्थापित किया। इसी का परिणाम है कि सभी आज भी राम राज्य की स्थापना की कामना करते हैं। जिसका अर्थ गरीब के जीवन से कष्ट मिटाना, देश को स्वाभिमान के साथ जीना सीखना और हर क्षेत्र में सुव्यवस्था स्थापित करना है। भगवान श्रीराम की प्राण प्रतिष्ठा पर सबको गर्व है। देश में सांस्कृतिक अनुष्ठान का पर्व चल रहा है, देश में सर्वधर्म समभाव ही शासन संचालन का आधार है। प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में देश संभावनाओं के आधार पर विकास के मार्ग पर चल रहा है और भावनाओं के आधार पर सनातन संस्कृति अक्षुण्ण रहते हुए समृद्ध हो रही है।     अयोध्या से अरब देश तक आज हमारे देवालय दैदिप्यमान हैं मुख्यमंत्री ने कहा कि देशवासी भारत को आगे बढ़ाने के लिए समर्पित हैं। स्वामी विवेकानंद ने कहा था कि 21वीं शताब्दी भारत की होगी। आज देश की अर्थव्यवस्था निरंतर प्रगति कर रही है, दुनिया के सभी प्रमुख देश भारत से मित्रता को आतुर हैं। आज अयोध्या से अरब देश तक हमारे देवालय दैदिप्यमान हैं। यही कामना है कि देश और सनातन संस्कृति इसी तरह आगे बढ़ती रहे। भारत विश्व की पहले नंबर की अर्थव्यवस्था बने, इस उद्देश्य के लिए मध्य प्रदेश सरकार प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में कार्यरत रहेगी और लोकतंत्र को सशक्त करेगी। मध्य प्रदेश देश का पहले नंबर का राज्य बनेगा।     विधानसभावार दौरे कर योजनाओं के क्रियान्वयन का अवलोकन करेंगे उन्होंने कहा कि वे विधानसभा वार दौरा कर विकास और जनकल्याण गतिविधियों का अवलोकन करेंगे तथा स्थानीय लोगों से संपर्क करेंगे। राज्य सरकार संवेदनशील है और गरीबों के हित को समर्पित है तथा पारदर्शी, जवाबदेह व्यवस्था स्थापित करने और सामान्य जन के मान सम्मान को सुरक्षित रखने के लिए प्रतिबद्ध है।     खुले में मांस-मछली के विक्रय पर प्रतिबंध मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में खुले में मांस के विक्रय पर प्रतिबंध है। खुले में मांस का विक्रय स्वास्थ्य के लिए भी हानिकारक है। मांस विक्रय के लिए पृथक से मार्केट विकसित किए जाएंगे। इसके लिए नगरीय निकायों को आवश्यकतानुसार राशि उपलब्ध कराई जाएगी।     प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में विकास और जनकल्याण के लिए राज्य सरकार कार्यरत उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी के देश के विकास में योगदान का स्मरण किया। उन्होंने कहा कि चुनी हुई सरकार से लोगों की आशाएं-अपेक्षाएं होती हैं और सरकार की विकास के लिए जवाबदारी होती है। प्रधानमंत्री मोदी ने जनता की सभी आशाओं, अपेक्षाओं को पूरा किया है। देश के सामने विद्यमान सभी चुनौतियों का दृढ़ता पूर्वक सामना किया है। प्रधानमंत्री मोदी ने तीन तलाक के मामले में सही निर्णय लेकर मुस्लिम बहन-बेटियों के हितों की भी रक्षा की है। राज्य सरकार विकास और जनकल्याण के लिए प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में कार्यरत है।     भूमि पूजन तथा लोकार्पण से बालाघाट क्षेत्र में विकास की गति तेज होगी क्षेत्रीय सांसद ढाल सिंह बिसेन ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री डॉ. यादव की डबल इंजन सरकार से प्रदेशवासियों की जो अपेक्षाएं हैं, वह सब पूरी होंगी। देश और प्रदेश में तेजी से विकास हो रहा है। आगामी समय में विकास की गति और तेज होगी तथा नई लोक कल्याणकारी योजनाओं को भी स्वीकृतियां मिलेंगी। मुख्यमंत्री डॉ. यादव का पूर्व राज्य मंत्री रामकिशोर कांवरे ने बालाघाट जिले को आयुर्वेद महाविद्यालय की सौगात पर सहमति के लिए आभार माना। उन्होंने कहा कि आज हुए भूमि पूजन तथा लोकार्पण से बालाघाट क्षेत्र में विकास की गति तेज होगी और रोजगार के नए अवसरों का सृजन होगा। पूर्व मंत्री गौरी शंकर बिसेन ने मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव का अभिनंदन किया।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 February 2024

gwalior, Effect of drizzle , mercury dropped

ग्वालियर। मंगलवार-बुधवार की रात ग्वालियर सहित अंचल में चुनिंदा स्थानों पर हुई बूंदाबांदी और हल्की बारिश ने बढ़ते तापमान पर ब्रेक लगा दिया है। इसी का असर है कि आज दिन व रात के तापमान में गिरावट दर्ज की गई है। मौसम विभाग के अनुसार अगले 24 घंटे के दौरान भी अंचल में कहीं-कहीं हल्की बारिश या बूंदाबांदी की संभावना बनी हुई है। इसके चलते गुरुवार को तापमान में और गिरावट हो सकती है।   मौसम विभाग के अनुसार वर्तमान में पंजाब और उससे सटे पाकिस्तान में पश्चिमी विक्षोभ और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में प्रेरित चक्रवात बना हुआ है। उत्तर भारत के वायु मंडल में उत्तर-पश्चिमी हवाओं का टकराव हो रहा है। इस वजह से उत्तरी मध्य प्रदेश में नमी वाली दक्षिण-पश्चिमी हवाएं आ रही हैं। इसी के चलते पिछले 24 घंटे के दौरान भिण्ड जिले के अटेर क्षेत्र में 5.0, लहार में 5.0, मिहोना में 4.0, गोहद में 2.4 लहार में 2.2, रौन में 2.0, मुरैना जिले के सबलगढ़ में 2.0, ग्वालियर जिले के डबरा में 2.2 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है। भिण्ड जिले के लहार एवं दतिया जिले के सेंवढ़ा क्षेत्र में चुनिंदा गांवों में ओलों की बौछार भी गिरी। ग्वालियर शहर में मंगलवार की रात में रुक-रुककर बूंदाबांदी हुई। बुधवार को भी दिन भर बादल छाए रहे। इसके चलते धूप अल्प समय के लिए ही निकली। सुबह और दोपहर में छुटपुट बूंदाबांदी भी हुई। मौसम विभाग के अनुसार चूंकि अभी मौसम प्रणालियां सक्रिय हैं। इस वजह से अगले 24 घंटे के दौरान भी ग्वालियर-चंबल संभाग में कहीं-कहीं बूंदाबांदी या हल्की बारिश हो सकती है। 24 फरवरी को पश्चिमी हिमालय में एक और पश्चिमी विक्षोभ आएगा। इसके प्रभाव से एक बार फिर मौसम में बदलाव देखने को मिल सकता है। स्थानीय मौसम विज्ञान केन्द्र के अनुसार पिछले दिन की तुलना में बुधवार को ग्वालियर शहर में अधिकतम तापमान 4.4 डिग्री सेल्सियस गिरावट के साथ 27.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो औसत से 0.9 डिग्री सेल्सियस कम है। न्यूनतम तापमान भी 1.4 डिग्री सेल्सियस गिरावट के साथ 17.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो औसत से 5.7 डिग्री सेल्सियस अधिक है। आज सुबह हवा में नमी 88 प्रतिशत दर्ज की गई जो सामान्य से 18 प्रतिशत अधिक है जबकि शाम को हवा में नमी 68 प्रतिशत दर्ज की गई जो सामान्य से 28 प्रतिशत अधिक है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 February 2024

panna, Lokayukta arrested ,clerk in DEO office

पन्ना। जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में लगातार कई वर्षो से लगभग हर वर्ष लोकायुक्त कार्यवाही की जाती है। कई लिपिक एवं डीईओ अब तक लोकायुक्त कार्यवाही के चलते सजा भोग चुके हैं। कार्रवाई होने के बाद भी भ्रष्टाचार और रिश्वतखोरी थमने का नाम नहीं ले रही है। ऐसे ही बुधवार को एक बार फिर सागर लोकायुक्त की टीम ने जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय मे पदस्थ लिपिक महेंद्र साहू को 20 हजार की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार कर लिया।   लोकायुक्त सागर डीएसपी मंजू सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि गत 16 फरवरी को शिकायत कर्ता किशोर सिंह राजपूत जो कि पेशे से शिक्षक है और पूर्व में घाट सिमरिया में पदस्थ था। उसका प्रमोशन होने के बाद जेडी शाखा भोपाल द्वारा बिहरासर में पदस्थपना के आदेश जारी किये थे। उक्त शिक्षक ने बिहरासर में ज्वाइन कर लिया। लेकिन वहां के प्राचार्य द्वारा कहा गया कि आप अपने पूर्व पदस्थापना स्थल पर ज्वाइनिंग दे। इसके लिए शिकायतकर्ता जिला शिक्षा अधिकारी एसबी मिश्रा से मिला। जिला शिक्षा अधिकारी ने फरियादी को आरोपित लिपिक महेंद्र साहू से मिलने के लिए कहा। जब शिकायत कर्ता आरोपित महेंद्र साहू से मिलने गये और उसने जिला शिक्षा अधिकारी की मंशानुसार पदस्थापना के नाम पर 25 हजार रूपये की मांग की। बाद में सौदा 20 हजार में तय हो गया। फरियादी ने इसकी शिकायत लोकायुक्त में 16 फरवरी को थी। जिस पर बुधवार को योजनानुसार शाम छह बजे 20 हजार के नोट लेकर फरियादी आरोपित लिपिक महेंद्र साहू को को देने पहुंचा। जैसे ही लिपिक ने पैसे लिये तत्काल लोकायुक्त टीम ने मय रिश्वत के नोटों सहित गिरफ्तार कर लिया। डीएसपी ने बताया कि उक्त रूपये लिपिक महेंद्र साहू द्वारा पहनी गई काली शर्ट की जेब से बरामद किये गये हैं। लोकायुक्त टीम ने उपरोक्त लिपिक के विरूद्ध भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत मामला पंजीबद्ध कर लिया है समाचार लिखे जाने तक कार्यवाही जारी थी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 February 2024

bhopal, Chief Minister , Kamlesh Daji

भोपाल। श्री रामचंद्र मिशन के अध्यक्ष तथा हार्टफुलनैस के वैश्विक आध्यात्मिक गाइड कमलेश डी पटेल (दाजी) भोपाल प्रवास के दौरान बुधवार को मुख्यमंत्री निवास पहुंचे। यहां मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने उनका शाल, श्रीफल और पुष्प गुच्छ भेंट कर निवास कार्यालय में अभिवादन किया। मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने प्रसिद्ध गीतकार समीर अंजान का भी अभिवादन किया।     इस अवसर पर मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने प्रदेश में जारी आध्यात्मिक तथा सांस्कृतिक गतिविधियों और उनके विस्तार की भावी योजनाओं, विद्यार्थियों के लिए सीखने की प्रोन्नत विधाओं और जन अभियान परिषद के सहयोग से प्रदेश में वृक्षारोपण विस्तार की संभावनाओं के संबंध में श्री दाजी से चर्चा की। संस्था से प्रशिक्षित बालिका कल्याणी ने अर्जित दक्षताओं का प्रदर्शन भी किया। इस अवसर पर हार्टफुलनैस संस्था के पदाधिकारी उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 February 2024

indore,Clean sweep , BJP

इंदौर। नगर निगम के जोन अध्यक्षों के चुनाव बुधवार को हो गए। चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने क्लीन स्वीप किया है। इस चुनाव के दौरान शहर सीमा के सभी 22 जोन के अध्यक्ष चुने गए हैं, ये सभी भाजपा के हैं। उल्लेखनीय है कि इंदौर के किसी जोन में तीन तो किसी में चार वार्ड शामिल किए गए हैं। वार्डों को जोन में इस तरह से शामिल किया गया था कि वहां अध्यक्ष भाजपा का ही होना तय था। बुधवार को हुए चुनाव के दौरान हाल ही में बने तीन नए जोन के अध्यक्षों के भी चुनाव हुए। चुनाव के लिए जोन में आने वाले वार्डों के पार्षदों को जोनल कार्यालय पर बुलाया गया। बैठक के दौरान जोन अध्यक्ष का नाम तय कर पार्षदों से नामांकन फार्म जमा कराए। जांच के बाद नाम वापसी की प्रक्रिया की गई और जो नाम बचा, वहीं जोनल अध्यक्ष चुना गया। चुनाव प्रक्रिया में मंत्री तुलसी सिलावट, नगर अध्यक्ष गौरव रणदिवे, महापौर पुष्यमित्र भार्गव, विधायक रमेश मेंदोला, विधायक मालिनी गौड़, एमआईसी सदस्य और पार्षद भी शामिल हुए।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 February 2024

bhopal, Fire breaks out ,Satpura Bhavan

भोपाल। राजधानी भोपाल स्थित सतपुड़ा भवन में एक बार फिर आग लगने की घटना सामने आई है। सतपुड़ा भवन की चौथी मंजिल पर मंगलवार दोपहर को आग लग गई। सूचना पर फायर ब्रिगेड की टीम मौके पर पहुंची है और करीब डेढ़ घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया। पिछले साल जून में भी इसी फ्लोर पर भीषण आग लगी थी। जानकारी अनुसार मंगलवार शाम करीब 4 बजे सतपुड़ा भवन के चौथे फ्लोर पर धुआं उठता दिखा। जिसके बाद सुरक्षाकर्मी फायर उपकरण लेकर पहुंचे। आग लगने से अफरा-तफरी मच गई। सूचना मिलते ही मौके पर आधा दर्जन फायर ब्रिगेड पहुंची और आग बुझाने में जुट गई। आग कैसे लगी इसका खुलासा नहीं हो पाया है। आग से नुकसान का आंकड़ा भी सामने नहीं आया है। फिलहाल आग पर काबू पा लिया गया है। गौरतलब है कि पिछले साल 12 जून 2023 को सतपुड़ा भवन में आग लगी थी। उस समय आग बुझाने में करीब 20 घंटे से ज्यादा का समय लग गया था। आगजनी की घटना में करीब 13 हजार महत्वपूर्ण फाइलें जलकर राख हो गई थीं। इस आग की वजह शॉट सर्किट को बताया गया था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 February 2024

bhopal,Environment protection ,Chief Minister Dr. Yadav

भोपाल। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा कि पृथ्वी को बचाने के उद्देश्य से पर्यावरण संरक्षण गतिविधियां राज्य शासन की प्राथमिकता है। पर्यावरण की रक्षा से संबंधित विशेषज्ञों के प्राप्त सुझावों पर राज्य शासन द्वारा आवश्यक निर्णय लिए जाएंगे। प्रदेश के नगरों में आमजन को पौधरोपण के लिए विभिन्न नर्सरी के माध्यम से पौधे उपलब्ध करवाए जाएंगे। नगरी और ग्रामीण निकायों द्वारा हरीतिमा के विकास के लिए स्थान सुरक्षित किए जाएंगे। इसके साथ ही सौर ऊर्जा को बढ़ावा दिया जाएगा और सिंगल यूज प्लास्टिक के उपयोग पर अंकुश लगाया जाएगा।     मुख्यमंत्री डॉ यादव मंगलवार को रविन्द्र सभागम में पर्यावरण सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि भोपाल में पर्यावरण सम्मेलन में पधारे पर्यावरण विद् और धर्मगुरू पर्यावरण की रक्षा के लिए सराहनीय कार्य कर रहे हैं। भारत की संस्कृति प्रकृति से जुड़ी है। हमारी जीवन शैली पेड़ पौधों और वनों के सम्मान का आव्हान करती है। हम वसुधा को परिवार मानते हैं। प्राचीन साहित्य की रचना भोज पत्रों पर हुई। आम के पत्तों से हम मंगल द्वार सजाते हैं। जिस देश को परमात्मा ने प्रकृति से जोड़ा है, वह देश विश्व को भी नया संदेश दे रहा है।     उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारत का यश विश्व में बढ़ रहा है। मोदी ने यह उदाहरण स्थापित किया कि जहां दुनिया के कई देश ताकत के बल पर सत्ता के विस्तार में लगे हैं, वहीं भारत शांति का संदेश विश्व को दे रहा है। कोविड के समय अन्य राष्ट्रों को औषधियां बांटने और पर्यावरण क्षेत्र में सभी के सहयोग से अच्छे परिणाम लाने का संकल्प प्रधानमंत्री मोदी की नेतृत्व क्षमता का परिचायक है।   मुख्यमंत्री ने कहा कि राजनीति के क्षेत्र में होने के बाद भी पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह पर्यावरण संरक्षण के महत्वपूर्ण अभियान से जुड़े हैं। वे हमारे आदर्श हैं। उनके द्वारा गत तीन वर्ष से प्रतिदिन पौधा लगाने का कार्य प्रेरक है।उन्होंने विभिन्न समाजों, बच्चों और बुजुर्गों सभी को पौध रोपण से जोड़ा है। मध्यप्रदेश सरकार पर्यावरण संरक्षण के लिए अधिक से अधिक कार्य करेगी।     उन्होंने पर्यावरण सम्मेलन के प्रतिभागियों का स्वागत करते हुए उन्हें बधाई दी और कहा कि आज यहां देश के अनेक पर्यावरण विद् धर्मगुरु और जनप्रतिनिधि आए हैं। डॉ. यादव ने कहा कि प्रतिदिन एक पेड़ लगाने के कार्य से शिवराज सिंह ने अनेक को जोड़ा, यह हमारे लिए प्रेरणा की बात है। नागरिक अपनी जन्म वर्षगांठ या अन्य अवसर पर पेड़ लगाना चाहें तो उन्हें वृक्ष बैंक के माध्यम से पौधे उपलब्ध करवाए जाएंगे। सौर ऊर्जा को बढ़ावा देते हुए सोलर पैनल की स्थापना के लिए नागरिकों को पूरा सहयोग मिलेगा। प्रदेश में सांची सोलर सिटी की पहचान बनी है। इस कार्य का विस्तार अन्य नगरों एवं ग्रामों में होगा।   शिवराज ने नागरिकों को दिलवाया संकल्प, रोज एक पेड़ लगाएंगे पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि आज यहां नागरिकों ने वर्ष में कम से कम एक पेड़ लगाने, प्रधानमंत्री मोदी द्वारा वर्ष 2070 तक नेट जीरो का लक्ष्य प्राप्त करने में सहयोग, घरों में सोलर पैनल की स्थापना, सिंगल यूज प्लास्टिक का उपयोग न करने और बेटा-बेटी से समान व्यवहार करने का संकल्प लिया है। प्रत्येक नगर और ग्राम में पर्यावरण के प्रति सजग नागरिकों की एक टीम तैयार कर सरकार और समाज के संयुक्त प्रयासों में सहयोग का संकल्प भी लिया गया है। धरती को सुरक्षित रखने के लिए ऐसे प्रयास आवश्यक हैं। चौहान ने कहा कि उन्हें विश्वास है कि मुख्यमंत्री डॉ. यादव के नेतृत्व में मध्यप्रदेश प्रगति पथ पर आगे बढ़ेगा। चौहान ने पर्यावरण में आए विभिन्न संस्थाओं के प्रतिनिधियों का आभार भी व्यक्त किया। उन्होंने नागरिकों को रोज एक पेड़ लगाने का संकल्प दिलवाया।   पर्यावरण विशेषज्ञों के संबोधन आमंत्रित पर्यावरणविद् पद्मभूषण डॉ. अनिल जोशी ने कहा कि आज विकसित देश अनेक कष्टों से गुजर रहे हैं। प्रकृति के प्रति सभी को गंभीर होना चाहिए। मध्यप्रदेश में आर्थिक विकास की तरह प्रकृति के संरक्षण के लिए किए जा रहे कार्यों का लेखा-जोखा रखा जा रहा है, जो अनुकरणीय है।   प्रख्यात गीतकार समीर अंजान ने कहा कि उन्होंने सर्वाधिक गीत लिखने के कीर्तिमान बनाने के बाद अब यह संकल्प लिया है कि पर्यावरण पर केंद्रित गीत भी लिखेंगे। अर्जित आय का दस प्रतिशत हार्ट-फुलनेस जैसी संस्थाओं को देने का संकल्प भी लिया है। प्रख्यात पर्यावरण विद् एवं आध्यात्मिक गुरु कमलेश डी पटेल (दाजी) ने कहा कि भारतीय जीवन परम्परा में प्रकृति के सम्मान और संरक्षण की दृष्टि से महत्वपूर्ण आदतें शामिल हैं। इनमें तुलसी या अन्य पौधे को सूर्यास्त के पश्चात न तोड़ने, पीपल और अन्य वृक्षों की पूजा भी शामिल है। जो फल हमें बेहतरीन स्वाद देते हैं, उन पेड़ों मनुष्य कुछ नहीं देता। पर्यावरण सम्मेलन में सनातन परिवार, गायत्री परिवार, माँ आशापुरा दरबार जैसी संस्थाओं का सहयोग सराहनीय है।   उप मुख्यमंत्री राजेंद्र शुक्ला ने कहा कि आज ग्लेशियर पिघल रहे हैं। यह विश्व के राष्ट्रों के लिए एक चेतावनी है। इसलिए आवश्यक है कि अधिक से अधिक पेड़ लगाए जाएं जिससे पर्याप्त प्राण वायु मिलती रहे। पूर्व मुख्यमंत्री चौहान तीन वर्ष से प्रतिदिन पौधरोपण कर रहे हैं। यह कार्य एक आंदोलन बन चुका है। कार्यक्रम में परिवहन एवं स्कूल शिक्षा मंत्री उदय प्रताप सिंह, खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मंत्री गोविंद सिंह राजपूत, भोपाल की महापौर मालती राय, सांसद रमाकांत भार्गव, पूर्व सांसद आलोक संजर, सुमित पचौरी एवं अन्य जनप्रतिनिधि, हार्ट-फुलनेस संस्था और अन्य सामाजिक संस्थाओं के सदस्य, पदाधिकारी और पर्यावरण प्रेमी, नागरिक उपस्थित थे।   कार्यक्रम में ब्रह्मकुमारी दीदियों ने मुख्यमंत्री डॉ. यादव, पूर्व मुख्यमंत्री चौहान और अन्य अतिथियों का अभिन्नदन किया है। रामचंद्र मिशन की ओर प्रकाशित दाजी की पर्यावरण संबंधी पुस्तक का विमोचन मुख्यमंत्री डॉ. यादव और पर्यावरण विद् जोशी ने किया। कार्यक्रम के अंत में अतिथियों एवं सभी उपस्थितों द्वारा आचार्य विद्यासागर जी के देवलोक गमन पर दो मिनट का मौन धारण कर श्रद्धांजलि दी गई।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 February 2024

bhopal, Many Congressmen , BJP, VD Sharma

भोपाल। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश में सेवा और विकास के जो कार्य हो रहे हैं, वह सिर्फ उनके ही नेतृत्व में संभव हैं। इसलिए सेवा व विकास के उन कार्यों तथा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जुड़ने के लिए बड़ी संख्या में लोग भारतीय जनता पार्टी से जुड़ रहे हैं। भाजपा सिर्फ राजनीतिक दल नहीं है, बल्कि एक परिवार है और इस परिवार में सभी का स्वागत है। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने मंगलवार को प्रदेश कार्यालय में आयोजित सदस्यता ग्रहण कार्यक्रम में संबोधित करते हुए कही। इस कार्यक्रम में दमोह जिला पंचायत उपाध्यक्ष डॉ मंजू कटारे, जनपद अध्यक्ष पूर्व एडीजे समेत दो दर्जन से अधिक नेताओं, अधिवक्ताओं ने पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। इस अवसर पर न्यू ज्वाइनिंग कमेटी के संयोजक व वरिष्ठ नेता डॉ. नरोत्तम मिश्रा भी उपस्थित रहे।   भाजपा में शामिल हुए जिला पंचायत उपाध्यक्ष, जनपद अध्यक्ष समेत अनेक नेता   भाजपा की विचारधारा तथा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व से प्रभावित होकर दमोह की जिला पंचायत उपाध्यक्ष डॉ मंजू कटारे, उपाध्यक्ष के प्रतिनिधि धर्मेंद्र कटारे, जनपद पंचायत बटियागढ़ की अध्यक्ष रामरानी कुशवाह, बटियागढ़ उपाध्यक्ष रजनी राजपूत, विभिन्न जनपद पंचायत सदस्यों में कमल मिश्रा, अवध रानी, कुंदन, केशवेंद्र सिंह, बैजांती बाई, एकता राय, युवा नेता महेंद्र राय, बटियागढ पूर्व कांग्रेस ब्लाक अध्यक्ष कैलाश सिंह लोधी, सरपचों में नरेंद्र कटारें, निधि पटेल, परमानंद चढार, सत्यभन सिंह, लक्ष्मीरानी एवं गोकुल सिंह सहित दो दर्जन से अधिक कांग्रेस नेताओं ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने उन्हें भाजपा में शामिल किया।     रिटायर्ड एडीजे समेत दो दर्जन से अधिक अधिवक्ता हुए भाजपा में शामिल   प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी की कल्याणकारी, जनहितैषी योजनाओं व फैसलों से प्रभावित होकर रिटायर्ड एडीजे नारायण सिंह मीना के साथ अधिवक्ता कलरव श्रीवास्तव, रोहन श्रीवास्तव, ए.बी दुबे, आत्माराम जाटव, आर. के पांडे, संतोष अग्रवाल, सुनील कुमार नेमा, धनंजय पांडे, अक्षय केमकुरिया, धीरेश पांडे, जतिन पांडे, कुमारी अंजु गौस्वामी, शुभम शुक्ला, संगीता शुक्ला, घनश्याम मेहरा सहित अन्य अधिवक्ता भाजपा में शामिल हुए। प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने सभी का स्वागत किया एवं शुभकामनाएं दीं।   इस अवसर पर पार्टी के प्रदेश महामंत्री व विधायक भगवानदास सबनानी, प्रदेश मंत्री राहुल कोठारी, प्रदेश कार्यालय मंत्री डॉ. राघवेंद्र शर्मा एवं जिला अध्यक्ष सुमित पचौरी उपस्थित रहे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 February 2024

bhopal, Chief Minister ,Bhai Uddhavdas Mehta

भोपाल। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने मंगलवार को भाई उद्धव दास मेहता की पुण्यतिथि पर आईटीसी कमला पार्क स्थित उनकी प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की तथा भाई उद्धव दास मेहता स्मृति न्यास द्वारा प्रकाशित पुस्तक "वैदिक काल से विलीनीकरण तक भोपाल" का विमोचन भी किया।   मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने भोपाल के विकास और राजधानी बनाने में भाई उद्धवदास मेहता के योगदान का उल्लेख करते हुए कहा कि वे हिन्दू महासभा, जनसंघ और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ में सक्रिय रहे। उन्होंने 1942 में भारत छोड़ो आंदोलन को इस अंचल में नेतृत्व प्रदान किया, वे धर्म ग्रंथों के अध्ययन के लिए विशेष रूप से बनारस गए। सनातन संस्कृति के मूल्यों को बनाए रखने में उनके योगदान और कठिन परिस्थितियों में हिन्दू उत्सव समिति में उनकी सक्रियता पर हमें गर्व है। भाई उद्धवदास मेहता ने पूरे समाज को दिशा दिखाई।   मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा कि यह बदलते दौर का भारत है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश में सांस्कृतिक अनुष्ठान का यज्ञ चल रहा है, सम्राट विक्रमादित्य, राजा भोज के समृद्ध और गौरवशाली अतीत की धरोहर को सहेजने और उसे पुष्पित-पल्लवित करने के लिए हम प्रतिबद्ध हैं। मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा कि पुस्तक "वैदिक काल से विलीनीकरण तक भोपाल" के लेखक रमेश शर्मा ने तथ्यों का समग्रता में प्रस्तुतिकरण और विश्लेषण किया है।   इस अवसर पर पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) कृष्णा गौर, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री नरेंद्र शिवाजी पटेल, सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर, विधायक भगवान दास सबनानी, महापौर मालती राय, पूर्व मंत्री उमाशंकर गुप्ता, पूर्व राज्यसभा सदस्य रघुनंदन शर्मा एवं राहुल कोठारी सहित अन्य जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 February 2024

bhopal, Fourth year ,Shivraj

भोपाल। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने 3 साल पूर्व हर दिन एक पौधा लगाने का संकल्प लिया था। उनके इस संकल्प को सोमवार को तीन साल पूरे हो गए। चौथे साल के पहले दिन मंगलवार को पूर्व मुख्यमंत्री ने पत्नी साधना सिंह समेत अन्य प्रमुख हस्तियों के साथ स्मार्ट सिटी पार्क में 108 पौधे रोपे।   पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने 19 फरवरी 2021 को नर्मदा जयंती के दिन रोजाना एक पौधा रोपने का संकल्प लिया था। उसके बाद बीते तीन सालों में उन्होंने मध्यप्रदेश के साथ-साथ उत्तराखंड, तमिलनाडु, महाराष्ट्र, दिल्ली, उत्तरप्रदेश, पश्चिम बंगाल, गुजरात, आंध्रप्रदेश, तेलंगाना, त्रिपुरा, कर्नाटक, पांडूचेरी, उड़ीसा, गोवा, गुजरात, केरल समेत देश के 16 राज्यों में 3238 पौधे रोपे हैं। मंगलवार को अपने संकल्प का चौथा साल शुरू होने पर पूर्व मुख्यमंत्री चौहान पत्नी साधना सिंह तथा अन्य प्रमुख जनों के साथ मंगलवार सुबह स्मार्ट सिटी पार्क पहुंचे और 108 पौधे रोपे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 February 2024

bhopal, Like Gwalior,  Ujjain trade fair

भोपाल। राज्य मंत्रिमंडल की सोमवार को हुई बैठक में कई अहम फैसले लिए गए। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में राष्ट्रीय संत आचार्य विद्यासागर जी को श्रद्धांजलि दी गई। इसके अलावा अगले महीने से उज्जैन में शुरू हो रहे मेले में ग्वालियर व्यापार मेले की तरह वाहन खरीद पर रजिस्ट्रेशन फीस और रोड टैक्स में छूट देने का फैसला लिया गया।   कैबिनेट की बैठक के बार में मीडिया को जानकारी देते हुए संसदीय कार्य मंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने बताया कि मंत्रिपरिषद की बैठक में सबसे पहले आचार्य विद्यासागर जी के शरीर त्यागने पर दो मिनट का मौन धारण कर श्रद्धांजलि दी गई। उन्होंने कहा कि उज्जैन में कार्तिक मेला काफी समय से लगता आ रहा है। अगले महीने से लगने वाले इस व्यापार मेले में ऑटोमोबाइल पर छूट देने का फैसला कैबिनेट में लिया गया है। जिस तरह ग्वालियर मेले में 50 प्रतिशत की छूट दी जाती है। वैसे ही उज्जैन के मेले में छूट दी जाएगी।   इसके अलावा बैठक में इंदौर-उज्जैन रोड को सिक्सलेन किये जाने, बड़े विश्वविद्यालयों को छोटा करने तथा कॉलेजों को ऑटोनॉमस बनाने, राज्य लोक सेवा आयोग में दो नए सदस्यों की नियुक्ति, खंडवा जिले में घोड़ापछाड़ नदी पर चल रही आंवलिया परियोजना के लिए 165 करोड़ की स्वीकृति तथा सड़कों पर घूमने वाले गोवंश एवं गोशालाओं की आर्थिक स्थिति सुधारने के लिए नई योजना बनाई जाने के निर्णय भी बैठक में लिए गए।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 February 2024

bhopal, Bees attack ,wedding ceremony

भोपाल। मध्य प्रदेश के गुना शहर के एक मैरिज गार्डन में शादी समारोह में आए लोगों पर मधुमक्खियों ने हमला कर दिया। हादसे में वर और वधु पक्ष के 20 लोग घायल हो गए। इनमें की हालत गंभीर हैं, जिन्हें निजी अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कराया गया है।   जानकारी के अनुसार, शहर के कस्तूरी गार्डन में रविवार को दिन में स्थानीय निवासी प्रमोद कुमार अग्रवाल की बेटी प्रियंका के विवाह से संबंधित रस्में चल रही थीं। इस दौरान वर-वधू पक्ष के सैकड़ों लोग गार्डन में जमा थे। तभी अचानक छत्तों से निकलकर मधुमक्खियों ने मेहमानों को डंक मारना शुरू कर दिया। मधुमक्खियों का हमला होते ही गार्डन में भगदड़ शुरू हो गई। कुछ लोग जमीन पर लेट गए, कोई एबी रोड की तरफ भागा तो अधिकांश मेहमानों ने खुद को गार्डन में स्थित हॉल और कमरों में बंद कर दिया। करीब एक घंटे तक मधुमक्खियों ने गार्डन परिसर में भिनभिनाना जारी रखा। जो लोग अपने आपको सुरक्षित नहीं कर पाए, उन्हें मधुमक्खियों ने डंक मारकर घायल कर दिया। हादसे के बाद विवाह आयोजकों ने स्वयं के जख्मों की परवाह न करते हुए घायल मेहमानों को अस्पताल पहुंचाना शुरू किया। जहां चिकित्सकों ने दो लोगों की गंभीर हालत को देखते हुए उन्हें आईसीयू में भर्ती कराने की सलाह दी।   घटनाक्रम के बाद शादी-समारोह के मेजबान ने दावा किया है कि उन्होंने गार्डन किराए पर लेते ही संचालक को इस बारे में आगाह किया था, लेकिन उनकी बात को नजरअंदाज कर दिया। घटना के बाद भी गार्डन संचालक ने गलती मानने की बजाए उन्हें धमकाया और प्रशासन से किसी भी स्तर पर शिकायत करने की चेतावनी दी। घटनाक्रम की वजह से विवाह आयोजक काफी आक्रोशित हैं। मधुमक्खियों के हमले की वजह से विवाह समारोह अस्त-व्यस्त हो गया है। रविवार की रात ही बारात का आगमन और पाणिग्रहण संस्कार सहित रिसेस्पशन होना था, लेकिन घटनाक्रम के बाद यह सभी कार्यक्रम अब गार्डन की बजाए एक बड़े हॉल में शिफ्ट कर दिए गए हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 February 2024

ujjain, City soldier dies ,crushed by truck

उज्जैन। देवासरोड़ पर सड़क पार कर रहे होमगार्ड सैनिक को रविवार सुबह करीब 6 बजे ट्रक ने कुचल दिया, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। माधव नगर पुलिस ने शव को पीएम के लिये जिला अस्पताल पहुंचाया और परिजनों को सूचना दी। प्राप्त जानकारी के अनुसार किशोर पिता नाथूलाल मालवीय निवासी माधव नगर कंट्रोल रूम होमगार्ड सैनिक था। रात को पुलिस लाइन स्थित मंदिर में प्रति शनिवार को होने वाले सुंदरकांड पाठ में शामिल होने पहुंचा था और रात को मंदिर में ही सो गया। सुबह करीब 6 बजे वह मंदिर से उठकर पैदल ही लाइन के सामने देवास रोड़ पर सड़क पार कर रहा था। तभी तेज रफ्तार ट्रक की चपेट में आ गया जिससे उसकी मौके पर ही मृत्यु हो गई। राहगीरों की सूचना पर पुलिस ने शव को पीएम के लिये अस्पताल पहुंचाया और शिनाख्ती के प्रयास शुरू किये। अस्पताल पहुंचकर शव की शिनाख्त किशोर के भांजे श्याम ने की। उसके साथी होमगार्ड सैनिकों ने बताया कि किशोर अविवाहित था। उसकी एक दिव्यांग बहन राधा साथ रहती थी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 February 2024

bhopal, Minister Silavat ,submitted demand letter

भोपाल। जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट ने रविवार को नई दिल्ली में केन्द्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने सौजन्य भेंट की और इंदौर में रेल सुविधा बढ़ाने के संबंध में चर्चा की। उन्होंने इंदौर की जनता की मांग के अनुसार एक मांग पत्र भी सौंपा। रेल मंत्री वैष्णव ने जल संसाधन मंत्री सिलावट को आश्वस्त कर कहा की जल्दी ही रेलवे के अधिकारियो इस संबंध में भौतिक सत्यापन कराया जाएगा और मांग पत्र कार्यवाही करने के लिए कहा जाएगा ।     मंत्री सिलावट ने केंद्रीय रेल मंत्री से भेंट के दौरान कहा की इंदौर मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी होकर देश के मेट्रो शहरों की श्रेणी में तेजी से विकसित हो रहा है। इसके साथ ही वर्ष 2028 में होने वाले सिंहस्थ महापर्व में आने वाले श्रद्धालुओं के आवागमन की सुविधाओं को देखते हुए, रेल सुविधाओं का विस्तार किया जाना जनहित में अत्यंत आवश्यक है। मंत्री सिलावट ने इंदौर के रेलवे स्टेशन को विश्वस्तरीय बनाए जाने पर भी चर्चा की।     जल संसाधन मंत्री सिलावट ने रेल मंत्री से कहा की इंदौर के सिख समाज के भाईयो और नई दिल्ली जाने वाले यात्रियों के लिए इंदौर अमृतसर रेल को सप्ताह में 3 दिन चलाया जाये। उन्होंने ट्रेन संख्या 20957/58 इंदौर-नई दिल्ली-इंदौर को प्रतिदिन करना, महू-फतेहाबाद (चंद्रावतीगंज) जंक्शन महू के बीच सुबह के समय एक डेमू ट्रेन का संचालन किया जाता था जिसे पुनः संचालन किया जाये। वर्तमान में चल रही डेमू रैक के स्थान पर मेमू रेक का परिचालन किया जाये। इंदौर से नीमच को जोड़ने के लिए ट्रेन संख्या 11125/26 (रतलाम इंदौर ग्वालियर /भिंड ट्रेन) को नीमच तक बढ़ाया जाये। अभी यह रेक रतलाम में 5 घंटे खड़ा रहता है।     मंत्री सिलावट ने कहा कि आम जनता की सुविधा और सुरक्षा के लिए मांगलिया और सिंगापुर टाउनशिप के पास रेल ऊपरी पुल (आरओबी) की स्वीकृति प्रदान की जाए। उन्होंने फतेहाबाद (चंद्रावतीगंज) रेलवे स्टेशन को मॉडल स्टेशन बनाने का भी आग्रह किया । सीआरएस स्पेशल के साथ हुई दुर्घटना स्थल (जहां 28 दिसम्बर को कैलोदहाला इंदौर में रेलवे ट्रेक पर 02 छात्राओं की मृत्यु हो गई थी) के पास सुरक्षा की दृष्टि से दोनों तरफ बाउंड्री वॉल का निर्माण किया जाने का आग्रह किया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 February 2024

satna, Three devotees , road accident

सतना। जैन मुनि आचार्य विद्यासागर महाराज के अंतिम दर्शन के लिए जा रहे सतना के तीन श्रद्धालुओं की सड़क हादसे में मौत हो गई है, जबकि तीन लोगों को मामूली चोटें आई हैं। हादसा छत्तीसगढ़ के डोंगरगढ़ में रविवार दोपहर करीब 12 बजे हुआ।     जानकारी के मुताबिक, जैन मुनि विद्यासागर महाराज के समाधि लेने की खबर के बाद उनके अंतिम दर्शन के लिए सतना से जैन समाज के उनके छह अनुयायी-शिष्य रविवार सुबह कार से छत्तीसगढ़ के चन्द्रगिरि रवाना हुए थे। दोपहर लगभग 12 बजे उनकी कार छत्तीसगढ़ के डोंगरगढ़ के पास दुर्घटना का शिकार हो गई।     जैन समाज के यशपाल जैन कक्का ने बताया कि उन्हें फोन पर इस हादसे की जानकारी मिली कि कार नदी में जा गिरी। इस हादसे में कार सवार आशीष जैन (आशीष ट्रेडर्स), जितेंद्र जैन जीतू (अशोक टॉकीज परिवार) और प्रशांत जैन (अनंत निलयम परिवार) की मौत हो गई। कार सवार छह लोगों में से वर्धमान जैन, अप्पू जैन और अंशुल जैन की हालत ठीक है। हालांकि उन्हें भी चोट आई है, लेकिन वे तीनों सुरक्षित हैं। बताया जा रहा है कि कार सवार सभी छह लोगों में से पांच खुद ड्राइविंग जानते थे। हादसा कैसे हुआ इसके बारे में फिलहाल कोई जानकारी नहीं मिल सकी है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 February 2024

sivpuri,  fed dirty food, elderly couple

शिवपुरी। शिवपुरी जिले अमोला थाना अंतर्गत सिलानगर गांव में एक बुजुर्ग दंपत्ति को मैला खिलाए जाने का मामला सामने आया है। इस मामले में पुलिस की लापरवाही भी सामने आई, क्योंकि पहले बुजुर्ग दंपति थाने पर शिकायत लेकर गए लेकिन थाने पर कोई सुनवाई नहीं हुई। इसके बाद जिला मुख्यालय पर आकर पुलिस अधीक्षक को आवेदन दिया। पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर पुलिस ने जांच की और इसके बाद मामला दर्ज किया गया। अब सात लोगों पर एफआईआर दर्ज हुई है और आरोपितों को विभिन्न धाराओं में गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है। मारपीट की और इसके बाद खिला दिया मैला- शिवपुरी जिले के सिलानगर गांव में जिन बुजुर्ग दंपति के साथ यह वारदात हुई है, उसमें उन्होंने पुलिस अधीक्षक को दिए आवेदन में आरोप लगाए हैं कि गांव के ही देवका कुशवाह, रामकुमारी कुशवाह, ऊषा कुशवाह, प्रेम कुशवाह, खरे कुशवाह, सर्रा कुशवाह, पप्पू कुशवाह ने उनके साथ 15 फरवरी को मारपीट की और मैला खिलाया। आरोपितों ने जादू टोना के शक में इस वारदात को अंजाम दिया। बताया जाता है कि पिछले कुछ दिनों से गांव के कुछ लोगों के अंडर वियर चोरी जा रहे थे। इस बात को लेकर उक्त मामले में बुजुर्ग दंपत्ति पर शक किया गया और आरोपितों ने इस बात को लेकर इनकी मारपीट कर दी और मैला खिला दिया। इस मामले में बुजुर्ग दंपत्ति के साथ जो अमानवीयकृत्य किया गया उसमें कई ग्रामीण वहां तमाशबीन बने रहे और उनके द्वारा कोई रोक-टोक नहीं की गई। बाद में जब पीड़ित इस मामले में थाने पर भी पहुंचे तो थाने पर कोई सुनवाई नहीं हुई। इसके बाद पीड़ितों ने शिवपुरी जिला मुख्यालय पर आकर पुलिस अधीक्षक को आवेदन दिया।   मामले में अब पुलिस ने फरियादिया की रिपोर्ट पर से ग्राम सिलानगर के देवका कुशवाह, रामकुमारी कुशवाह, ऊषा कुशवाह, प्रेम कुशवाह, खरे कुशवाह, सर्रा कुशवाह, पप्पू कुशवाह पर थाना अमोला पर अपराध क्रमांक 23/24 धारा 294, 323, 328, 270, 506, 34 भादवि का कायम कर विवेचना में लिया गया । अब इस मामले में पुलिस को कहना है कि पूर्व में जब फरियादी थाने पर आए थे तो आरोपितगणों द्वारा फरियादिया को जान से मारने की धमकी दी गयी थी अगर तूने थाने पर भिस्टा (मल) लगाने वाली बात बोली तो तुझे जान से खत्म कर देंगे, जिस डर से फरियादिया ने थाने पर कोई भिस्टा लगाने बाली बात नहीं बताई थी और झगड़ा होने की रिपोर्ट लिखाकर दोनों पक्षों को आपस मे राजीनामा करके चले गये थे। मामले में पुलिस ने अब आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई कर उन्हें गिरफ्तार कर न्यायालय पेश किया। यहां से न्यायालय ने उक्त आरोपितों को जेल भेज दिया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 February 2024

bhopal, State mourning , Madhya Pradesh

भोपाल। जैन समाज के लिए रविवार का दिन बेहद कष्टदायक है, क्योंकि जैन मुनि आचार्य विद्यासागर महाराज ने समाधि ले ली। ऐसे में देश भर में जहां शोक की लहर है, वहीं मध्यप्रदेश सरकार ने भी उनके प्रति अपनी श्रद्धा व्यक्त करते हुए आधे दिन का प्रदेश में राजकीय शोक घोषित कर दिया है। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने इसकी घोषणा की है। इसके साथ ही प्रदेश में रविवार को होने वाले सभी सांस्कृतिक कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं।   उल्लेखनीय है कि तीन दिन के उपवास के बाद 'वर्तमान के वर्धमान' कहे जाने वाले जैन मुनि आचार्य विद्यासागर महाराज ने छत्तीसगढ़ के डोंगरगढ़ तीर्थ स्थल पर समाधि ले ली। उन्होंने तीन दिन पहले समाधि मरण की प्रक्रिया की शुरुआत की थी, जिसके बाद उन्होंने अन्न-जल का त्याग कर दिया था। शनिवार 17 फरवरी की देर रात 2.35 बजे दिगंबर मुनि परंपरा के आचार्य श्री विद्यासागर महाराज ने अपना शरीर त्याग दिया। आचार्य श्री के शरीर त्यागने की खबर मिलने के बाद से देश भर से उनके शिष्यों का डोंगरगढ़ में जुटना जारी है। अब तक लगभग 400 ब्रह्मचारी भैया और 350 दीदी पूरे देश के अलग-अलग हिस्सों से यहां पहुंच चुके हैं। मुनि श्री संभव सागर महाराज, समता सागर, महासागर महाराज, पूज्य सागर जी, निरामय सागर डोंगरगढ़ यहां पहुंच चुके हैं।     मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा है कि आचार्य विद्यासागर जी का मध्य प्रदेश के प्रति विशेष स्नेह रहा है। प्रदेशवासियों को उनका भरपूर आशीर्वाद मिला। उनके सद्कार्य हमें सदैव प्रेरित करते रहेंगे। आध्यात्मिक चेतना के पुंज, विश्व वंदनीय संत शिरोमणि परमपूज्य आचार्य गुरुवर श्री 108 विद्यासागर जी महाराज की संलेखना पूर्वक समाधि सम्पूर्ण जगत के लिए अपूरणीय क्षति है। आचार्य जी का संयमित जीवन और विचार सदैव प्रेरणा देते रहेंगे।     मुख्यमंत्री ने एक्स पर लिखा, ''विश्ववंदनीय संत आचार्य गुरुवर श्री 108 विद्यासागर जी महाराज जी के समाधिस्थ होने से सर्वत्र शोक व्याप्त है। आज मध्यप्रदेश में सरकार के सभी सांस्कृतिक कार्यक्रम रद्द किए जा रहे हैं। साथ ही आधे दिन का राजकीय शोक रहेगा। श्रद्धेय संत की अंतिम यात्रा में मध्यप्रदेश सरकार की ओर से कैबिनेट मंत्री चैतन्य कश्यप उपस्थित रहेंगे।''     पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए एक्स पर लिखा, राष्ट्र संत आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज का समाधिपूर्वक निधन का समाचार सम्पूर्ण जगत को स्तब्ध और निशब्द करने वाला है। मेरे जीवन में आचार्य श्री का गहरा प्रभाव रहा। उनके जीवन का अधिकतर समय मध्यप्रदेश की भूमि में गुजरा और उनका मुझे भरपूर आशीर्वाद मिला। आचार्य श्री के सामने आते ही हृदय प्रेरणा से भर उठता था। उनका आशीर्वाद असीम शांति और अनंत ऊर्जा प्रदान करता था। उनका जीवन त्याग और प्रेम का उदाहरण है। आचार्य श्री जीते जागते परमात्मा थे। उनका भौतिक शरीर हमारे बीच ना हो, लेकिन गुरु के रूप में उनकी दिव्य उपस्थिति सदैव आस पास रहेगी। आचार्य श्री शीघ्र ही परमपद सिद्धत्व को प्राप्त हों। गुरुवर के चरणों में शत शत नमन नमोस्तु भगवन!''   मध्यप्रदेश भाजपा के अध्यक्ष वीडी शर्मा ने शोक व्यक्त करते हुए कहा कि संत शिरोमणि आचार्य भगवंत गुरुदेव प्रवर श्री 108 विद्यासागर महामुनिराज जी की सल्लेखना पूर्वक समाधि का समाचार हम सभी के लिए पीड़ादायक है। पूज्य आचार्य भगवंत तप, ज्ञान, संयम, आराधना और करुणा की प्रतिमूर्ति थे। पूज्य आचार्य भगवंत के श्रीचरणों में कोटि-कोटि नमन। नमोस्तु गुरुदेव! पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए एक्स पर लिखा, ''पूज्य संत शिरोमणि आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज के सल्लेखना पूर्वक समाधि लेने की खबर न सिर्फ जैन समाज के लिए, बल्कि समूचे भारत और विश्व के लिए अपूरणीय क्षति है। ब्रह्मलीन आचार्य श्री विद्याधर जी महाराज ज्ञान, त्याग, तपस्या और तपोबल का सागर रहे हैं। भारत भूमि ऐसे अलौकिक संत के दर्शन, प्रेरणा, आशीष, स्पर्श और करूणा से धन्य हुई है। मैं आचार्य श्री विद्यासागर जी को भावपूर्ण प्रणाम करता हूं। शत् शत् नमन करता हूं। आचार्य श्री हमेशा हमारे हृदय में, हमारी चेतनाओं में, हमारी आस्थाओं में और हमारे जीवनपथ पर शाश्वत रहेंगे। “जय जय गुरुदेव”''

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 February 2024

bhopal, National convention ,Vishnudutt Sharma

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के विरोधी दल भी अब यह मानने लगे हैं कि लोकसभा चुनाव में एनडीए गठबंधन 400 से अधिक सीटें जीतने जा रहा है। लेकिन झाबुआ की जनसभा में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अकेली भाजपा को 370 सीटें जिताने का एक मंत्र दिया था। उन्होंने कहा था कि अगर हम हर बूथ पर भाजपा को मिले सर्वाधिक वोटों से 370 वोट अधिक हासिल कर लेते हैं, तो अकेली भाजपा को 370 से अधिक सीटें जीतने से कोई रोक नहीं सकेगा। लोकसभा चुनाव में हर बूथ पर कमल खिलाने तथा 370 वोट अधिक प्राप्त करने के संकल्प के साथ पार्टी का दो दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन दिल्ली में होने जा रहा है।     यह बात भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने शुक्रवार को पत्रकार-वार्ता को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि पार्टी के राष्ट्रीय अधिवेशन का शुभारंभ प्रगति मैदान के भारत मंडपम में 17 फरवरी को राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा करेंगे। पंजीकरण प्रातः 11 बजे से किया जाएगा तथा उद्घाटन सत्र दोपहर 3 बजे प्रारंभ होगा। अधिवेशन के दौरान राजनीतिक प्रस्ताव पर चर्चा होगी तथा लोकसभा चुनाव की दृष्टि से विचार विमर्श होगा। विभिन्न राज्यों के प्रेजेंटेशन होंगे। अधिवेशन का समापन सत्र 18 फरवरी को दोपहर 2 बजे से आयोजित किया जाएगा। इस सत्र में उपस्थित कार्यकर्ताओं का मार्गदर्शन प्रधानमंत्री मोदी करेंगे।     उन्होंने कहा कि जैसा कि प्रधानमंत्री ने कहा है कि हम हर बूथ पर चुनाव लड़ेंगे, तो इसकी रणनीतिक तैयारी को लेकर भी अधिवेशन में चर्चा हो सकती है। शर्मा ने कहा कि भगवान रामलला की प्राण प्रतिष्ठा और ऐसे ही अनेक अभियानों के बाद दिल्ली में दुनिया के सर्वाधिक लोकप्रिय नेता प्रधानमंत्री मोदी की उपस्थिति में होने जा रहा यह अधिवेशन कई मायनों में ऐतिहासिक होगा।       प्रदेश के 1226 कार्यकर्ता, जनप्रतिनिधि, पदाधिकारी होंगे शामिल भाजपा प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने कहा कि इस अधिवेशन में प्रदेश के 1226 मुख्य कार्यकर्ता, जनप्रतिनिधि और पार्टी पदाधिकारी भाग लेंगे। इसके लिए राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य, राष्ट्रीय परिषद सदस्य, लोकसभा और राज्यसभा के सांसद, पूर्व सांसद, विधायक, सभी मोर्चा के राष्ट्रीय पदाधिकारी, प्रदेश पदाधिकारी, कोर कमेटी अनुशासन समिति, वित्त समिति, चुनाव समिति के सदस्य, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष, लोकसभा क्लस्टर प्रभारी, लोकसभा प्रभारी, लोकसभा संयोजक, लोकसभा विस्तारक, प्रदेश के मीडिया संयोजक, सोशल एवं आईटी संयोजक, मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष, महामंत्री, प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक, जिला अध्यक्ष, जिला प्रभारी, नगर निगम, नगर पालिका एवं नगर पंचायत के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, जिला पंचायत अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, राज्य स्तरीय बोर्ड एवं निगम के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष अपेक्षित हैं। उन्होंने कहा कि सभी कार्यकर्ता कल सुबह तक दिल्ली पहुंच जाएंगे और अधिवेशन में शामिल होकर शीर्ष नेतृत्व का मार्गदर्शन प्राप्त करेंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 February 2024

bhopal, Education department clerk , taking bribe

भोपाल। राजधानी भोपाल में लोकायुक्त पुलिस ने शुक्रवार को स्कूल शिक्षा विभाग की एक महिला क्लर्क को 10 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगेहाथ गिरफ्तार किया है। आरोपित महिला बरखेड़ा में स्थित शासकीय महारानी लक्ष्मीबाई उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, संकुल केंद्र में वरिष्ठ लिपिक के तौर पर पदस्थ है। उस पर एक प्राथमिक शाला की सहायक शिक्षिका ने पेंशन संबंधी कागजी कार्रवाई करने के एवज में रिश्वत मांगने का आरोप लगाया था।     लोकायुक्त डीएसपी संजय शुक्ला ने बताया कि शासकीय प्राथमिक शाला पिपलिया पेंदे खां में सहायक शिक्षिका लिओलिना इक्का ने गत 14 फरवरी को एक शिकायती आवेदन दिया था। उसमें उन्होंने बताया कि वह इसी साल अप्रैल में सेवानिवृत्त होने वाली हैं और उन्होंने अपनी पेंशन से संबंधित समस्त दस्तावेज विगत जनवरी में संकुल केंद्र शासकीय महारानी लक्ष्मी बाई उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बरखेड़ा की लेखा शाखा में कार्यरत वरिष्ठ लिपिक रानी शर्मा के पास जमा कर दिए थे। उपरोक्त कार्य को करने के ऐवज में रानी शर्मा द्वारा उनसे 50 हजार रुपये रिश्वत की मांग की गई। बाद में उनके बीच 25 हजार रुपये पर सहमति बनी और 15 हजार रुपये पहले देने एवं बाकी रुपये काम होने के बाद देना तय हुआ। शिकायत की तस्दीक करने के बाद आरोपित को पकड़ने के लिए जाल बिछाया गया। शुक्रवार को फरियादी महिला ने जैसे संकुल केंद्र पहुंचकर आरोपित महिला क्लर्क को 10 हजार रुपयों से भरा लिफाफा दिया, लोकायुक्त की टीम ने उसई समय दबिश देकर उसे पकड़ लिया।   लोकायुक्त पुलिस ने भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की तहत प्रकरण दर्ज कर आरोपित महिला क्लर्क से पूछताछ शुरू कर दी है। लोकायुक्त डीएसपी संजय शुक्ला की अगुआई में हुई इस कार्रवाई में निरीक्षक रजनी तिवारी, निरीक्षक उमा कुशवाह, प्रधान आरक्षक राजेंद्र पावन, आरक्षक संदीप, अवध की टीम शामिल रही।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 February 2024

bhopal, Chief Minister ,candidates of BJP

भोपाल। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव, प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा की उपस्थिति में उपस्थिति में पार्टी के चारों राज्यसभा उम्मीदवार एल. मुरुगन, वाल्मीकि धाम उज्जैन के पीठाधीश्वर उमेश नाथ जी महाराज, महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष माया नारोलिया एवं किसान मोर्चा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बंशीलाल गुर्जर ने विधानसभा में अपने नामांकन जमा किए। इस अवसर पर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान, प्रदेश शासन के उप मुख्यमंत्री जगदीश देवड़ा, मंत्री कैलाश विजयवर्गीय एवं प्रहलाद पटेल सहित वरिष्ठ नेतृत्व मौजूद रहा। नामांकन दाखिल करने से पहले पार्टी प्रत्याशियों ने प्रदेश कार्यालय स्थित पं. दीनदयाल उपाध्याय एवं डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी की प्रतिमाओं पर माल्यार्पण किया। माल्यार्पण के उपरांत चारों राज्यसभा उम्मीदवार वरिष्ठ नेताओं के साथ विधानसभा पहुंचे। यहां मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव, केंद्रीय मंत्री एल. मुरूगन के प्रस्तावक बनें, वहीं पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान, माया नारोलिया के, मध्यप्रदेश शासन के मंत्री कैलाश विजयवर्गीय, उमेशनाथ महाराज के एवं मध्यप्रदेश शासन के मंत्री प्रहलाद पटेल, बंशीलाल गुर्जर के प्रस्तावक बने। केंद्रीय मंत्री एल. मुरूगन, उमेश नाथ महाराज, माया नारोलिया एवं बंशीलाल गुर्जर ने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं एवं सैकड़ों कार्यकर्ताओं की उपस्थिति में राज्यसभा चुनाव के लिए अपने नामांकन दाखिल किये। जमीनी स्तर पर काम करने वाले कार्यकर्ता हैं पार्टी प्रत्याशीः विष्णुदत्त शर्मा इस अवसर पर मीडिया से चर्चा के दौरान प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने चारों प्रत्याशियों को बधाई एवं शुभकामनाएं दीं। उन्होंने कहा कि आज का दिन हम सभी के लिए सौभाग्यशाली है। चारों राज्यसभा प्रत्याशियों ने अपने नामांकन जमा किए हैं। वीडी शर्मा ने कहा कि हमारे केंद्रीय नेतृत्व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, अमित शाह, राष्ट्रीय अध्यक्ष जे.पी.नड्डा ने ऐसे कार्यकर्ताओं को उम्मीदवारों के रूप में चुना है, जिन्होंने जमीनी स्तर पर काम किया है। इसके लिए मैं केंद्रीय नेतृत्व को बहुत-बहुत धन्यवाद देता हूं, आभार जताता हूं। बंशीलाल गुर्जर किसान नेता हैं, महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष माया नारोलिया ने पंच और पार्षद के रूप में अपना कॅरियर शुरू किया। उमेश नाथ जी महाराज ने दलित समाज के लिए काम किया और सामाजिक समरसता के लिए अपना जीवन लगा दिया है। वहीं, केंद्रीय मंत्री एल मुरूगन अनुसूचित जनजाति के लिए काम करते रहे और तमिलनाडु के वरिष्ठ नेता हैं। भाजपा की गौरवशाली परंपरा में लगेंगे चार चांदः डॉ. मोहन यादव इस अवसर पर मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा कि मैं पार्टी के राज्यसभा उम्मीदवारों केंद्रीय मंत्री एल मुरुगन, उमेश नाथ जी महाराज, किसान नेता बंशीलाल गुर्जर और महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष माया नारोलिया को बधाई और शुभकामनाएं देता हूं। उन्होंने आशा जताई कि राज्यसभा में प्रदेश का नया नेतृत्व मध्यप्रदेश के लिए सौभाग्यशाली रहेगा। उन्होंने कहा कि सभी उम्मीदवारों का चयन इस तरह से किया गया है कि उनकी उपस्थिति से राज्यसभा का मान बढ़ेगा और भारतीय जनता पार्टी की जो गौरवशाली परंपरा है, उसमें चार चांद लग जाएंगे। इस अवसर पर प्रदेश शासन के मंत्री तुलसीराम सिलावट, कृष्णा गौर, नरेंद्र शिवाजी पटेल, विधायक रामेश्वर शर्मा, महापौर मालती राय, प्रदेश कार्यालय मंत्री डॉ. राघवेन्द्र शर्मा, प्रदेश मीडिया प्रभारी आशीष अग्रवाल, किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष दर्शन सिंह चौधरी, जिला अध्यक्ष सुमित पचौरी, विधायक उमाकांत शर्मा, दिलीप सिंह परिहार, अमरसिंह यादव, चुनाव आयोग समन्वय विभाग के प्रदेश संयोजक एस.एस. उप्पल, पैनलिस्ट वंदना त्रिपाठी एवं गुंजन चौकसे सहित पार्टी पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  15 February 2024

bhopal, roadside hit , truck

भोपाल। राजधानी भोपाल के रायसेन रोड स्थित सैम कॉलेज के पास गुरुवार सुबह बाेरिंग मशीन लेकर जा रहे ट्रक ने बस को टक्कर मार दी। टक्कर के बाद बेकाबू हुई बस ने सड़क किनारे खड़े चार लोगों को चपेट में ले लिया। हादसे में एक महिला की मौत हो गई, जबकि तीन अन्य घायल हुए है। घायलों को नजदीक स्थित अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनका उपचार चल रहा है। पुलिस मामले की जांच मेंं जुटी है।   जानकारी अनुसार घटना देहात के बिलखिरिया थाना क्षेत्र में रायसेन रोड स्थित सैम कालेज के सामने गुरुवार सुबह करीब साढ़े नौ बजे की है। यहां बोरिंग मशीन लेकर जा रहे एक हेवी ट्रक ने आगे जा रही बस को टक्कर मार दी। टक्कर होते ही बस अनियंत्रित होकर सड़क से नीचे उतर गई। इस दौरान सड़क किनारे खड़े चार लोग उसकी चपेट में आ गए। हादसे में एक महिला भूरी बाई की मौत हो गई है, वहीं तीन लोग घायल हो गए हैं। घायलों को नजदीक स्थित अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनका उपचार चल रहा है। बताया जा रहा है कि मृतक महिला अपनी मां की गमी में शामिल होने आई थी और हादसे का शिकार हो गई। हादसे के तुरंत बाद मौके पर लोगों की भीड़ लग गई, जिससे थोड़ी देर के लिए मार्ग पर जाम लग गया। फिलहाल बिलखिरिया थाना पुलिस मामला दर्ज कर जांच में जुट गई है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  15 February 2024

bhopal, History of Lodhi,,Chief Minister Dr. Yadav

भोपाल। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा कि लोधी, लोधा और लोध क्षत्रिय समाज का इतिहास बहादुरी का इतिहास है। देश के स्वतंत्रता संग्राम में समाज के वीरों और महापुरुषों ने अपना सर्वस्व न्यौछावर कर दिया। पूरा देश उनके बलिदान का ऋणी रहेगा। भावी पीढ़ी को उनके जीवन चरित्र और मूल्यों से प्रेरणा लेना चाहिए। यह बात मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने बुधवार को तुलसी मानस भवन में लोधी, लोधा और लोध क्षत्रिय महासभा की प्रांतीय बैठक को संबोधित करते हुए कही।     मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वीरों, महापुरूषों को सम्मानित करने की भावना के साथ नई शिक्षा नीति लागू कर शिक्षा के पाठ्यक्रम से गुलामी के चिन्ह मिटाए है। नई शिक्षा नीति में आवश्यक किताबी ज्ञान के साथ महापुरुषों, क्रांतिकारियों और बलिदानियों की जीवनियों को शामिल किया गया हैं। मुख्यमंत्री ने वीर हृदय शाह लोधी और रानी अवंती बाई लोधी के भारत की स्वतंत्रता में किए गए योगदान और बलिदान को याद कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। मुख्यमंत्री डॉ. यादव का लोधी, लोधा और लोध क्षत्रिय महासभा ने बड़ी पुष्प माला पहनाकर और शॉल, श्रीफल एवं स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मान किया।   मुख्यमंत्री डॉ. यादव का पर्यटन, संस्कृति और धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) धर्मेंद्र लोधी ने सागर में रानी अवंतीबाई लोधी विश्वविद्यालय की स्थापना और उनके नाम पर सम्मान दिए जाने के कार्यों के लिए समाज की ओर से आभार माना। इस अवसर पर पंचायत और ग्रामीण विकास एवं श्रम मंत्री प्रहलाद पटेल, लोधी लोधा और लोध क्षत्रिय समाज के प्रदेश अध्यक्ष जालम सिंह पटेल सहित समाज के प्रतिनिधि और बड़ी संख्या में आमजन उपस्थित रहे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 February 2024

bhopal, exodus not stopping , Congress

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा एवं वरिष्ठ नेता व न्यू ज्वाइनिंग टोली के प्रदेश प्रभारी डॉ. नरोत्तम मिश्रा के समक्ष कांग्रेस के कई नेताओं और जनप्रतिनिधियों ने पार्टी की विचारधारा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विकास कार्यों से प्रभावित होकर भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। पार्टी की सदस्यता ग्रहण करने वालों में कांग्रेस की गंजबासौदा जनपद अध्यक्ष नीतू देवेन्द्र सिंह रघुवंशी, सीधी जिले से कांग्रेस महिला मोर्चा की प्रदेश महामंत्री रंजना मिश्रा, जिला महामंत्री रोहित मिश्रा एवं को-ऑपरेटिव सेल के प्रदेश महामंत्री सुरेश पांडे, इंदौर से एनसीपी महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष सारिका उपाध्याय सहित गंजबासौदा के जनपद सदस्य, सरपंच एवं पूर्व सरपंच शामिल है।   इस अवसर पर पार्टी के प्रदेश महामंत्री शरदेन्दू तिवारी एवं विधायक रीति पाठक, विधायक हरि सिंह रघुवंशी, विदिशा जिला अध्यक्ष राकेश जादौन एवं प्रयागराज रघुवंशी उपस्थित रहे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 February 2024

bhopal, BJP ,dedicated workers

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व ने प्रदेश से राज्यसभा प्रत्याशियों के नामों की घोषणा कर दी है। पार्टी ने चार ऐसे समर्पित कार्यकर्ताओं को अपना उम्मीदवार बनाया है, जिन्होंने महत्वपूर्ण सामाजिक भूमिका का भी निर्वाह किया है। इसके लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा एवं केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह को धन्यवाद देता हूं।     भाजपा प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने बुधवार को अपने बयान में सभी राज्यसभा प्रत्याशियों को बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए यह बात कही। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने राज्यसभा प्रत्याशी के रूप में अनुसूचित जाति वर्ग से दो और पिछड़ा वर्ग से दो कार्यकर्ताओं को चुना है। पार्टी नेतृत्व ने उमेश नाथ महाराज को राज्यसभा प्रत्याशी बनाया है, जिन्होंने देश-प्रदेश में एक कार्यकर्ता के रूप में वाल्मीकि समाज के लिए काम करते हुए अपनी पहचान बनाई है। पार्टी ने तमिलनाडु के एल.मुरुगन को मध्यप्रदेश से प्रत्याशी बनाया है, जो केंद्रीय मंत्री हैं और उनके माध्यम से मध्यप्रदेश तमिलनाडु को सशक्त बनाने का काम कर रहा है।     उन्होंने कहा कि राज्यसभा उम्मीदवार बनाए गए बंशीलाल गुर्जर पार्टी के समर्पित कार्यकर्ता हैं और बूथ स्तर के कार्यकर्ता से लेकर प्रदेश महामंत्री के रूप में पार्टी संगठन को सशक्त बनाने का काम किया है। शर्मा ने कहा कि महिला सशक्तिकरण पार्टी की प्राथमिकता रही है। इसी उद्देश्य से पार्टी ने महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष माया नारोलिया को भी अपना उम्मीदवार बनाया है। इसके लिए केंद्रीय नेतृत्व का आभार जताता हूं और सभी प्रत्याशियों को एक बार फिर शुभकामनाएं देता हूं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 February 2024

bhopal, Congress ,Madhya Pradesh

भोपाल। राज्यसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने भी मध्यप्रदेश से अपने उम्मीदवार का नाम घोषित कर दिया। कांग्रेस ने अशोक सिंह को राज्यसभा का उम्मीदवार बनाया है। अशोक सिंह ग्वालियर के रहने वाले हैं और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और कमलनाथ दोनों के करीबी माने जाते हैं। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय सचिव केसी वेणुगोपाल ने बुधवार को राज्यसभा चुनाव के लिए कांग्रेस उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी है। जिसमें मध्य प्रदेश समेत तीन राज्यों के छह राज्यसभा उम्मीदवारों की घोषणा की गई है। इनमें मध्य प्रदेश से अशोक सिंह का नाम भी शामिल है। इसके अलावा कर्नाटक से तीन अजय माकन, डाॅ. सैयद नासिर हुसैन, जीसी चंद्रेशर और तेलंगाना से दो उम्मीदवार रेणुका चौधरी और एम. अनिल कुमार यादव के नाम घोषित किए गए हैं।   अशोक सिंह फिलहाल मप्र कांग्रेस में कोषाध्यक्ष के पद पर हैं। उन्होंने चार बार लोकसभा चुनाव लड़ा, लेकिन उन्हें हर बार हार का सामना करना पड़ा। अशोक सिंह के नाम की घोषणा के साथ ही बीते कुछ दिनों से चली आ रही उन तमाम अटकलों पर विराम लग गया है, जिनमें कमलनाथ, मीनाक्षी नटराजन, अरुण यादव, अजय सिंह राहुल भैया, कमलेश्वर पटेल को राज्यसभा उम्मीदवार बनाए जाने की बातें कही जा रही थीं।   इससे पहले भाजपा ने भी मध्य प्रदेश से राज्यसभा के लिए चार उम्मीदवारों के नाम की घोषणा की है। भाजपा ने तमिलनाडु प्रदेश के पूर्व अध्यक्ष व केंद्रीय मंत्री एल. मुरुगन, भाजपा ने किसान मोर्चा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बंशीलाल गुर्जर, महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष माया नारोलिया और संत उमेश नाथ महाराज को राज्यसभा चुनाव के लिए उम्मीदवार बनाया है।   गौरतलब है कि राज्यसभा में मध्यप्रदेश से पांच सीटें खाली होने वाली हैं। विधायकों की संख्या बल के हिसाब से वर्तमान में चार सीटें भाजपा को मिलनी तय है, जबकि एक सीट कांग्रेस के खाते में आएगी। राज्यसभा चुनाव के लिए विधानसभा में नामांकन की प्रक्रिया चल रही है। चुनाव के लिए गुरुवार, 15 फरवरी तक नामांकन करने की अंतिम तारीख है। इसके बाद 20 फरवरी तक नामांकन वापस लिए जा सकेंगे। जरूरत पड़ने पर 27 फरवरी को मतदान होगा और उसी दिन शाम को पांच बजे मतगणना होगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 February 2024

bhopal, Chief Minister ,Pulwama attack

भोपाल। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने बुधवार को पुलवामा हमले की बरसी पर भारतीय सेना के शहीद जवानों को शौर्य स्मारक पहुंचकर श्रद्धांजलि अर्पित की। मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने शौर्य स्तंभ पर पुष्प चक्र अर्पित कर नमन किया। उन्होंने भारत माता की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की।     मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने मीडिया प्रतिनिधियों से चर्चा में कहा कि आतंकवादियों के पुलवामा हमले में सीआरपीएफ के 40 जवानों ने प्राणोत्सर्ग किया था। जवानों के बलिदान का स्मरण करते हुए आज शौर्य स्मारक पर पुष्पांजलि अर्पित की है। हमारे वीर जवानों ने अपने कर्तव्य निर्वहन के दौरान प्राणों की आहुति दे दी। प्रधानमंत्री मोदी की पहल पर हुई सर्जिकल स्ट्राइक ने देश के सामर्थ्य और साहस का प्रदर्शन किया तथा पड़ोसी देशों को संयम व सीमा में रहने का पाठ पढ़ाया। मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा कि अमर बलिदानियों को श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए यही कामना है कि हमारे देश पर फिर कभी ऐसा संकट न आने पाए। हमारी सेना दुश्मनों का मुंह तोड़ जवाब देने में सक्षम है, संपूर्ण विश्व भारत के सामर्थ्य से अवगत है और देशवासियों को अपनी सेना पर विश्वास भी है और गर्व भी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 February 2024

ujjain,  Karnataka to Delhi, Ayodhya

उज्जैन। कर्नाटक से किसान आंदोलन में भाग लेने दिल्ली जा रहे किसानों को बुधवार सुबह उज्जैन से अयोध्या के लिए रवाना कर दिया गया है। किसानों का कहना है कि उन्हें दिल्ली जाना था, लेकिन जबर्दस्ती अयोध्या वाली ट्रेन में बिठा दिया गया।   कर्नाटक के 70 किसान कुछ महिला कार्यकर्ताओं के साथ कर्नाटक एक्सप्रेस ट्रेन से दिल्ली जाने के लिए निकले थे। सोमवार तड़के 3 बजे भोपाल रेलवे स्टेशन पर इन्हें उतार लिया गया। सोमवार को दिन और रातभर इन्हें भोपाल के अशोका गार्डन इलाके के मनभा मैरिज हॉल में रखा गया और मंगलवार सुबह ट्रेन से उज्जैन भेज दिया गया।बुधवार सुबह 7 बजे सभी किसानों को को अयोध्या जाने वाली ट्रेन में बैठा दिया गया। कर्नाटक के एक किसान नेता ने बताया कि रातभर हमें पुलिस की निगरानी में रखा गया। आज सुबह हम दिल्ली जाना चाहते थे, लेकिन पुलिस फोर्स ने रोके रखा। गाड़ियों में बैठाकर रेलवे स्टेशन लाए और अयोध्या जाने वाली ट्रेन में बैठा दिया। हमारे साथ कोच में एक पुलिस जवान को भी भेजा है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 February 2024

bhopal, Message of love ,“Valentine

(प्रवीण कक्कड़)  भारत के पास वैसे तो अपने पर्व और त्योहारों की कमी नहीं है, लेकिन हमारा देश इतने खुले स्वभाव का है कि दूसरी संस्कृतियों से शुरू हुई परंपराओं को अपनाने से गुरेज नहीं करता। वैलेंटाइन डे भी भारत के त्योहारों में ऐसा ही एक मेहमान है। दो-तीन दशक से भारत की युवा पीढ़ी का यह प्रिय त्यौहार हो गया है और सामान्य तौर पर इसे स्त्री-पुरुष के प्रेम के पर्व के रूप में मनाया जाता है। यह त्यौहार 14 फरवरी को आता है और सामान्य तौर पर इस समय भारत में वसंत ऋतु अपने यौवन पर होती है, इस बार तो वसंत पंचमी भी वैलेंटाइन डे के दिन ही आ रही है। लोग अब भूलने लगे हैं, लेकिन किसी जमाने में भारत में मदनोत्सव भी मनाया जाता था। मदनोत्सव में भी प्रेम की ऐसी ही  अभिव्यक्ति का रिवाज था। कौन जाने समय के चक्कर में मदनोत्सव ही वैलेंटाइन डे के रूप में फिर भारत में लौट आया हो लेकिन भारत में प्रेम को कभी सिर्फ एक ढांचे में नहीं बांधा गया। प्रेम के अलग-अलग रूप हैं और हर रूप में ही यह सुंदर है। जिन संत वैलेंटाइन के नाम पर वैलेंटाइन डे मनाया जाता है उन्होंने भी तो प्राणिमात्र में प्रेम की शिक्षा दी थी। इसीलिए अगर वैलेंटाइन डे को मानवता के प्रेम के पर्व के रूप में मनाया जाए तो भी कोई हर्ज नहीं है। इस दिन प्रेमी प्रेमिका तो अपने प्रेम का इजहार करें ही, साथ ही हम हर उस व्यक्ति के प्रति प्रेम का प्रदर्शन करें जिसके जीवन में किसी तरह का दुख है, अवसाद है या जिसे आपके प्रेम और स्नेह की आवश्यकता है। इन लोगों में आपके माता पिता और भाई बहन भी शामिल हैं। जिंदगी की भाग दौड़ में हमें इस तरह का वक्त कम ही मिल पाता है, जब हम उन लोगों के प्रति प्रेम का प्रदर्शन कर सकें जिन्हें हम बातें हृदय से चाहते हैं। भाई भाई के बीच प्रेम होता है लेकिन दोनों अपने कामों में इस कदर व्यस्त रहते हैं कि इसका इजहार नहीं कर पाते हैं। भाई बहन के प्यार के लिए तो हमारे पास रक्षाबंधन का पर्व है लेकिन बाकी रिश्तो के लिए अलग से ऐसे त्यौहार बहुत नजर नहीं आते हैं। पुराने जमाने में इसकी बहुत जरूरत भी नहीं रही होगी क्योंकि संयुक्त परिवारों में तो सब साथ ही रहते थे। तो फिर इस वैलेंटाइन डे पर हर उस किसी को एक फूल देने की कोशिश करिए जिसे आप प्यार करते हैं, जिससे आपका अनुराग है, जो आपके स्नेह का हकदार है। फूल और गुलदस्ते के रंग आप चुन लीजिए, बस इतना याद रहे कि उनमें ऐसी खुशबू हो जो फूलों  मुरझाने के बाद भी बची रहे जिससे जीवन और रिश्ते महकते रहें।  क्यों मनाते हैं वैलेंटाइन डे  वैसे तो वैलेंटाइन डे से जुड़ी कई कहानियां हैं। लेकिन सबसे पहली जानकारी प्राचीन रोमी लोगों से मिलती है। जब वे 14 फरवरी को अपने देवता जूनो की पूजा करते थे। प्राचीन रोमी परंपरा के अनुसार, इस दिन को प्रेम और विवाह के साथ एक पवित्र अवसर के रूप में मनाया जाता था। वहीं, कई इतिहासकारों का मानना है कि वैलेंटाइन डे 14 फरवरी को सेंट वैलेंटाइन की मृत्यु के बाद उनकी स्मृति में मनाया जाता है। दूसरों का मानना है कि इसकी शुरुआत "लुपरकेलिया" नामक पीगन फर्टिलिटी फेस्टिवल से हुई थी, जो प्राचीन रोम में 15 फरवरी को मनाया जाता था। हालांकि, मॉडर्न वैलेंटाइन डे 14वीं शताब्दी के मध्य में इंग्लैंड और फ्रांस में मनाना शुरू हुआ था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 February 2024

sehore, Flood of faith , Kubereshwar Dham

सीहोर। जिला मुख्यालय के समीपस्थ चितावलिया हेमा स्थित निर्माणाधीन मुरली मनोहर एवं कुबेरेश्वर महादेव मंदिर में इन दिनों आस्था का महाकुंभ लगा हुआ है। मंगलवार को प्रसिद्ध कथावाचक पंडित प्रदीप मिश्रा के निर्देशानुसार पंडित विनय मिश्रा सहित अन्य ने नेपाल से आए भक्तों के दल के साथ रुद्राक्ष का पौधा लगाया गया।   इसके अलावा मंदिर परिसर में विभिन्न प्रजाति के एक दर्जन से अधिक पौधों का रोपण किया व पौधरोपण करने से वातावरण में होने वाले फायदे बताते हुए उनकी रक्षा करने की बातें कही। सभी लोगों ने पौधारोपण कर पर्यावरण को सुरक्षित व स्वच्छ रखने का प्रयास किया जा रहा है। पंडित प्रदीप मिश्रा ने पौधारोपण करने के लिए प्रेरित करते हुए कहा कि हर व्यक्ति को अपने परिवार के सभी सदस्यों के नाम पर पौधे अवश्य लगाना चाहिए।   विठलेश सेवा समिति के मीडिया प्रभारी प्रियांशु दीक्षित ने बताया कि मंगलवार को सुबह धाम पर विधि-विधान से पूजा अर्चना के पश्चात शाम को बाबा की आरती की गई एवं कंकर शंकर वाले स्थान पर चंदन, रुद्राक्ष और शमी के पौधे का रोपण किया गया।   नेपाल से आए दल ने बताया कि रुद्राक्ष एक देववृक्ष है। यह जीवनरक्षक है। साथ ही इसका धार्मिक महत्व भी है। रुद्राक्ष के साथ ही अन्य पौधों का भी रोपण करना चाहिए। साथ ही पेड़-पौधों की रक्षा भी करनी चाहिए। यदि पेड़-पौधे नहीं होंगे तो धरती जीव विहीन हो जाएगी। न हवा चलेगी न वर्षा होगी। ऐसे में जीवन की कल्पना भी नहीं की जा सकती। पुराणों से लेकर धार्मिक अनुष्ठानों तक रुद्राक्ष का बहुत मान्यता है। रुद्राक्ष के अलग-अलग प्रकार होते हैं और इसे बहुत पवित्र माना जाता है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 February 2024

bhopal, Defection continues ,Lok Sabha elections

भोपाल। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नीतियों से प्रभावित होकर आज कांग्रेस के कई नेताओं ने भाजपा का दामन थामा है। उन सभी कांग्रेस नेताओं का पार्टी में स्वागत करता हूं। सभी को यह विश्वास दिलाता हूं कि भारतीय जनता पार्टी अपना एक परिवार है। परिवार के नाते से हम सब मिलकर काम करेंगे और इस बार छिंदवाड़ा में भी जीत का परचम लहराएंगे। प्रदेश की सभी 29 लोकसभा सीटें जीतेंगे और सबसे ज्यादा वोट प्रतिशत प्राप्त कर इतिहास रचेंगे। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने मंगलवार को कांग्रेस छोड़कर भाजपा की सदस्यता लेने वाले नेताओं का स्वागत करते हुए कही। यह कांग्रेस नेता हुए पार्टी में शामिल   भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश कार्यालय में मंगलवार को प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा एवं प्रदेश संगठन महामंत्री हितानंद के समक्ष पार्टी की रीति-नीति और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विकास कार्यों से प्रभावित होकर छिंदवाड़ा जिले से युवा कांग्रेस के पूर्व प्रदेश सचिव बंटी पटेल सहित 50 से अधिक सरपंच, ब्लॉक एवं क्षेत्रीय पदाधिकारियों एवं जबलपुर जनपद पंचायत अध्यक्ष चन्द्रकिरण गिरी, उनके पति सरपंच दयानंद गिरी, सरपंच दिनेश मस्कोले, अशोक पटले, जबलपुर जिला पंचायत अध्यक्ष आशा गोटिया के पति मुकेश गोटिया एवं सेवानिवृत्त शिक्षक दुर्गाप्रसाद दाहिया ने भी पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। इस दौरान प्रदेश अध्यक्ष ने आशा गोटिया को निर्विरोध जिला पंचायत अध्यक्ष बनने पर शुभकामनाएं दीं।   भाजपा प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने कांग्रेस नेताओं को भाजपा में शामिल करते हुए कहा कि आज भारतीय जनता पार्टी में छिंदवाड़ा के युवा कांग्रेस के पूर्व प्रदेश सचिव बंटी पटेल, कांग्रेस क्षेत्रीय अध्यक्ष गोलू पटेल, कांग्रेस के नेता राकेश पटेल, दीपक पटेल, 10 से अधिक सरपंच, पूर्व ब्लाक अध्यक्ष और जबलपुर जनपद पंचायत अध्यक्ष चन्द्रकिरण गिरी, उनके पति सरपंच दयानंद गिरी सहित बड़ी संख्या में कांग्रेस नेताओं ने आज भारतीय जनता पार्टी के सदस्यता ग्रहण की है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में देश के अंदर जिस प्रकार से आज भारतीय जनता पार्टी की सरकार काम कर रही है, उससे प्रभावित होकर आज छिंदवाड़ा के लोगों ने भी संकल्प लिया है कि लोकसभा चुनाव में इस बार भाजपा की जीत का परचम फहराएंगे और भारतीय जनता पार्टी को 370 सीटों के पार पहुंचाएंगे। वीडी शर्मा ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने वाले सभी भाई-बहनों को मैं बहुत-बहुत बधाई देता हूं, शुभकामनाएं देता हूं।   इस अवसर पर पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं विधायक अजय विश्नोई, प्रदेश मीडिया प्रभारी आशीष अग्रवाल, छिंदवाड़ा जिला अध्यक्ष विवेक बंटी साहू, विधायक नीरज सिंह एवं जबलपुर ग्रामीण जिला अध्यक्ष रानू तिवारी उपस्थित रहे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 February 2024

bhopal, Jitu Patwari , account

भोपाल। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी ने विधानसभा में पेश हुए लेखानुदान पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा है कि वित्तमंत्री ने 1 अप्रैल से 31 जुलाई तक के लिए अंतरिम बजट (लेखानुदान) पेश किया है, इसमें महिला बाल विकास विभाग को 9 हजार करोड़ से ज्यादा की राशि दी गई है। जबकि, माना जा रहा था कि लोकसभा चुनाव को देखते हुए लाड़ली बहना की राशि को बढ़ाया जाएगा, लेकिन अंतरिम बजट में इसके लिए कोई प्रावधान नहीं किया गया है। इसके सिर्फ दो ही कारण हो सकते हैं। एक-वोट लेने के बाद भूल जाने की पुरानी आदत को दोहरा रही है। दूसरा- लोकसभा चुनाव में को अब महिलाओं के वोट की आवश्यकता ही नहीं है। जीतू पटवारी ने मंगलवार को एक बयान जारी कर कहा कि विधानसभा चुनाव में जिस तरह से लाडली बहना याेजना को लेकर वादा किया गया था लेकिन, बाद में सब कुछ भुला दिया गया। भाजपा भले ही भूल गई, लेकिन महिलाएं याद रखेंगी, वे झूठ का पूरा और पक्का हिसाब लेंगी। जीतू पटवारी ने कहा कि मप्र सरकार लाड़ली बहना योजना में दी जाने वाली 1250 रुपए की राशि को नहीं बढ़ा रही है! वित्त मंत्री ने जो अंतरिम बजट पेश किया है, उसमें ये साफ हो गया है कि जुलाई तक लाड़ली बहनों को 1250 रुपए प्रति माह ही मिलेगा। समझ नहीं आता आपकी हिम्मत की दाद दूं या फिर लाड़ली बहनों के साथ हो रही धोखाधड़ी के लिए एक निंदा प्रस्ताव भेज दूं। स्कूल शिक्षा विभाग का बजट बड़ा, स्तर घटा जीतू पटवारी ने कहा कि अंतरिम बजट में सबसे ज्यादा 13 हजार करोड़ से ज्यादा की राशि स्कूल शिक्षा विभाग को दी गई है स्कूल शिक्षा की गुणवत्ता सुधारने के लिए भाजपा सरकार मप्र में सीएम राइज स्कूल की योजना लेकर आई थी। मैंने पूर्व में भी विस्तार से आंकड़ों और बजट के जरिए मध्य प्रदेश के पिछड़े हुए शैक्षणिक परिदृश्य पर प्रकाश डाला था। बजट पर सरकार की ‘दूरदर्शिता’ को देखते हुए फिर दोहरा रहा हूं। मध्यप्रदेश में पिछले 10 साल में स्कूली शिक्षा पर 1.50 से 2 लाख करोड़ रुपए खर्च हो चुके हैं। बावजूद इसके इस दौरान सरकारी स्कूलों में 39 लाख और निजी स्कूलों में 65 हजार बच्चे कम हो गए हैं। स्कूल शिक्षा में 2022-23 में 27 हजार करोड़ रुपए का बजट प्रावधान था। इसमें से 15205 करोड़ खर्च हुए। 2010-11 में सरकारी स्कूलों में बच्चों की संख्या 1 करोड़ 5 लाख बच्चे थे, जिनकी संख्या 2021-22 में घटकर 66.23 लाख रह गई, क्यों? कर्ज लेकर योजनाओं को पूरा करने की नाकाम कोशिश कर रही सरकार जीतू पटवारी ने कहा कि कर्ज लेकर बजट की योजनाओं का मर्ज दूर करने की ऐसी कई नाकाम कोशिश से पहले भी की जाती रही हैं। असफलता और भ्रष्टाचार के कारण परिणाम हमेशा लक्ष्य से बहुत दूर ही रहा। जरूर यह है कि बजट घोषणाओं का जमीनी क्रियान्वयन पूरी ईमानदारी और तत्परता से किया जाए।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 February 2024

ujjain, Karnataka farmers ,Bhopal reach Ujjain

भोपाल/उज्जैन। किसान आंदोलन में शामिल होने के लिए दिल्ली जा रहे कर्नाटक के किसानों को सोमवार को भोपाल में उतार लिया गया था। मंगलवार सुबह इन किसानों को उज्जैन लाया गया है। रेलवे स्टेशन पर किसानों ने नारेबाजी की। यहां से पुलिस सभी को वैन में शिप्रा नदी के घाट लेकर पहुंच गई है। संभवत: पुलिस - प्रशासन इन किसानों को महाकाल दर्शन कराकर वापस भेजना चाहता है।   दिल्ली जा रहे कर्नाटक के किसानों को भोपाल रेलवे स्टेशन पर कर्नाटक एक्सप्रेस ट्रेन से उतार लिया गया था। इन किसानों में 25 महिलाएं भी शामिल हैं। सभी किसानों को सोमवार को अशोका गार्डन स्थित एक मैरिज गार्डन में ठहराया गया था। मंगलवार सुबह इन्हें उज्जैन ले जाया गया। धारवाड़ (कर्नाटक) के किसान नेता परशुराम ने कहा कि हम दिल्ली जा रहे थे। भोपाल पुलिस ने सोमवार तड़के तीन बजे जबरदस्ती ट्रेन से उतार लिया। हमसे कहा कि कर्नाटक वापस जाओ, हमने मना करते हुए कहा कि हम दिल्ली जाएंगे। आज हम लोगों को ट्रेन में बैठाकर उज्जैन ले आए हैं। इधर, इस मामले में पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने मामले में मंगलवार सुबह एक्स पर लिखा कि 'भाजपा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव किसानों से इतने क्यों घबरा रहे हैं? मोदी गारंटी के अंतर्गत किसान आंदोलन समाप्त करने के लिए जो वादे किए थे, पूरे नहीं हुए हैं। इसके लिए यह आंदोलन आज दिल्ली में हो रहा है। वादे पूरे करो। एमएसपी हमारा अधिकार है, लागू करो। मोदी जी, आपकी गारंटी का सवाल है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 February 2024

bhopal, Congress MLA,farmer leaders

भोपाल। मध्य प्रदेश विधानसभा का बजट सत्र के पांचवें दिन मंगलवार को सदन की कार्यवाही हंगामेदार रही। प्रदेश से किसान आंदोलन में जा रहे किसान नेताओं की गिरफ्तारी के मुद्दे पर सदन की कार्यवाही शुरू होने से पहले कांग्रेस विधायकों ने विधानसभा के बाहर प्रदर्शन किया। उन्होंने गांधी प्रतिमा के सामने बैठकर अपनी आवाज बुलंद की। इस दौरान विधायक महेश परमार, सुरेश राजे, अनुभा मुंजारे, सेना पटेल ने विरोध करते हुए जमकर नारेबाजी की।   कांग्रेस विधायक किसानों के न्यूनतम समर्थन मूल्य सहित अन्य मांगों का समर्थन करते हुए विधानसभा में गांधी प्रतिमा के सामने बैठ गए और प्रदर्शन किया। कांग्रेस विधायक तख्तियां लेकर विधानसभा पहुंचे थे। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार किसानों की आवाज को दबाने का काम कर रही है। अपनी मांग को लेकर दिल्ली जाने वाले किसानों को जबरन भोपाल और दूसरे शहरों में रोका जा रहा है। सरकार किसानों को प्रताड़ित कर रही है।   वहीं, पुष्पराजगढ़ से कांग्रेस विधायक फुंदेलाल मार्को ने स्कूल में किताबें न बांटे जाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि किताबें कबाड़ में फेंकी जा रही हैं। पहली से पांचवीं तक की किताबें फेंकी गई हैं। वह यह आरोप एप्रन में लिखकर लाए थे, जिसे उन्होंने पहन रखा था। इस एप्रन पर उन्होंने किताबों को कबाड़ में बेचने और कचरे में फेंकने की तस्वीरें लगा रखी थी। सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें एप्रन पहनकर विधानसभा में जाने से रोका। विधायक ने एप्रन निकालकर विधानसभा में प्रवेश किया। अन्य विधायक तख्तियां लेकर विधानसभा में जाने की कोशिश कर रहे थे। उन्हें सुरक्षाकर्मियों ने रोका। इसे लेकर तीखी झड़प भी देखने को मिली।   इसके बाद सदन में कांग्रेस विधायकों ने किसानों को आंदोलन में जाने से रोकने का मुद्दा उठाया। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सदन में किसानों के आंदोलन को लेकर सरकार को घेरा। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश की 70 फीसदी अर्थव्यवस्था कृषि क्षेत्र पर आधारित है। किसान ही आर्थिक गतिविधि बनाते हैं। किसानों के जेब मे पैसा हो तो गांव के किराने की दुकान चलती है। एमएसपी सबसे बड़ी चीज है। हर किसान को गारंटी होनी चाहिए।   विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार ने आरोप लगाया कि सरकार युवा, महिला, किसानों के बारे में नहीं सोच रही है। इस वजह से कांग्रेस आंदोलन कर रही है। सरकार विषय से भटकना चाह रही है। सरकार जो पैसा खर्च कर रही है, विधायकों पर खर्च कर रही है, मुद्दों से भटकाना चाहती है। केंद्र सरकार कभी भी किसानों के पक्ष में नहीं रही। किसान शहीद हुए हैं। क्या देश के किसानों को संपन्न नहीं होना चाहिए? उन्होंने यह भी कहा कि लेखानुदान पर चर्चा होनी चाहिए। सारगर्भित चर्चा होनी चाहिए।   टोल रोड से अवैध वसूली का सवाल वहीं, प्रश्नकाल के दौरान जौरा विधायक पंकज उपाध्याय ने टोल रोड पर अवैध वसूली पर सवाल किया। उन्होंने कहा कि लागत से तीन से चार गुना टोल वसूल किया जा चुका है। उन्होंने पूछा कि सरकार जनता की है या ठेकेदार की? इस पर लोक निर्माण मंत्री राकेश सिंह ने कहा कि टोल 15 साल के लिए होता है। इसकी पूरी रिपोर्ट बनती है। अलग अलग एमओयू होते हैं। इसमें सड़क का मेंटेनेस भी शामिल होता है। राशि पर लगने वाला ब्याज भी इसमें शामिल होता है।   मिनी स्मार्ट सिटी पर मांगे सुझाव सीधी से भाजपा विधायक रीति पाठक ने मिनी स्मार्ट सिटी पर सवाल उठाया। उन्होंने कहा कि सीधी जिले को स्मार्ट सिटी बनाने पर कितनी राशि खर्च हुई? उन्होंने स्मार्ट सिटी में विकास के लिए राशि बढ़ाने की मांग भी की। इस पर नगरीय प्रशासन मंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने पाठक से ही सुझाव मांग लिया। उन्होंने कहा कि सीधी स्मार्ट सिटी में ओर क्या विकास होना चाहिए, इस पर सुझाव दें। विजयवर्गीय ने आश्वासन दिया कि सीधी के लिए जो भी राशि आवश्यक होगी, उसका अतिरिक्त आवंटन किया जाएगा।   मध्य प्रदेश में सड़कों के गड्ढे भरने आएगा मोबाइल एप कांग्रेस विधायक झूमा सोलंकी ने सड़क की बदहाल स्थिति का मुद्दा उठाया। इस पर लोक निर्माण मंत्री राकेश सिंह ने सदन को बताया कि जल्द ही मोबाइल एप की मदद से गड्ढे भरे जाएंगे। आम लोग गड्ढों के फोटो मोबाइल से खींचकर एप में भेजेंगे। यह तस्वीर संबंधित जिले के अधिकारियों के पास पहुंच जाएगी। तय समय सीमा में इन सड़कों की मरम्मत करनी होगी। उनकी जवाबदेही सुनिश्चित की जा रही है। मरम्मत के बाद अफसर को ही फोटो भी अपलोड करनी होगी कि काम पूरा हो गया है।     बीना के रिंगरोड, बालाघाट में पेयजल का मुद्दा उठा   बीना विधायक निर्मला सप्रे ने वहां बन रहे रिंगरोड का मुद्दा प्रश्नकाल में उठाया। इसके बाद बालाघाट विधायक अनुभा मुंजारे ने पूछा कि उनके क्षेत्र में जल आवर्धऩ योजना का काम अटका पड़ा है। 2018 में यह काम पूरा हो जाना था, लेकिन अब भी यह अधूरा है। जनता को शुद्ध पेयजल की आपूर्ति नहीं हो पा रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि जो काम अब तक हुआ है, उसकी गुणवत्ता अच्छी नहीं है। घटिया निर्माण कार्य हुए हैं।     पीएम आवास योजना के अपात्र हितग्राहियों का मुद्दा   भाजपा विधायक ललिता यादव ने छतरपुर नगर पालिका में अपात्र लोगों को पीएम आवास योजना का लाभ दिए जाने का मुद्दा उठाया। इस पर नगरीय प्रशासन मंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि 21 हितग्राही अपात्र पाए गए हैं। उनसे वसूली की कार्रवाई की गई है। ललिता यादव ने कहा कि 90 लोगों की जानकारी नहीं दी गई है। इस पर विजयवर्गीय ने कहा कि जांच करने भोपाल से टीम भेजी जाएगी।     इसी तरह विधायक रामसिया भारती ने दुरूस्त सड़कों को बार-बार बनाने का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि बड़ा मलहरा में सड़कों की गुणवत्ता अच्छी नहीं है। सड़क निर्माण की जांच होनी चाहिए। इस पर नगरीय प्रशासन मंत्री ने कहा कि अच्छी सड़कों को बार-बार बनवाया जा रहा है तो इसकी जांच कराई जाएगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 February 2024

gwalior, Prime Minister Modi, India emerged

ग्वालियर। केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि पिछले 10 साल में देश का नक्शा बदल गया है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारत विश्व पटल पर नक्षत्र की तरह उभरा है। पहले देश आर्थिक शक्ति के रूप में 10वें स्थान पर था, जो अब 5वें स्थान पर पहुंच गया है। आने वाले दिनों में देश को हम तीसरी आर्थिक शक्ति के रूप में स्थापित करने का कार्य कर रहे हैं।     केन्द्रीय मंत्री सिंधिया सोमवार को डबरा में विकसित भारत संकल्प यात्रा के तहत आयोजित लाभार्थियों को विभिन्न योजनाओं का लाभ वितरित करने के लिए आयोजित शिविर को संबोधित कर रहे थे। शिविर में विभिन्न हितग्राहियों को शासन की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ भी वितरित किया गया।   केन्द्रीय मंत्री सिंधिया ने सुचित्रा सिंह एवं सरोज परिहार से भी संवाद किया। इन दोनों हितग्राहियों को शासन की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ प्राप्त हुआ है, जिसके कारण इनके जीवन में परिवर्तन आया है। सुचित्रा परिहार को लाड़ली बहना योजना, आयुष्मान कार्ड, उज्ज्वला योजना के तहत गैस सिलेण्डर उपलब्ध हुआ है। इसके साथ ही इनकी बेटी को भी लाड़ली लक्ष्मी योजना का लाभ प्राप्त हो रहा है। इसके साथ ही सरोज परिहार द्वारा गठित स्व-सहायता समूह को आर्थिक मदद उपलब्ध कराकर समूह की महिलाओं को आर्थिक रूप से सशक्तिकरण का कार्य किया गया है। सिंधिया ने समारोह में शासन की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के तहत पात्र हितग्राहियों को हितलाभों का वितरण भी किया।     कार्यक्रम के प्रारंभ में भाजपा ग्रामीण जिला अध्यक्ष कौशल शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में देश भर में शासन की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के पात्र हितग्राहियों को लाभान्वित करने के उद्देश्य से विकसित भारत संकल्प यात्रा के तहत कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। इस आयोजन के माध्यम से अनेक लोगों को योजनाओं का सीधा लाभ प्राप्त हो रहा है।     पूर्व मंत्री इमरती देवी ने कहा कि प्रदेश सरकार और केन्द्र सरकार के माध्यम से आम जनों के जीवन को बेहतर बनाने की दिशा में सराहनीय कार्य किया जा रहा है। विकास कार्यों के साथ-साथ आम लोगों के जीवन को और बेहतर बनाने के लिये भी विकसित भारत संकल्प यात्रा के माध्यम से सार्थक पहल हो रही है। इस अवसर पर विधायक मोहन सिंह राठौर, कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक राजेश चंदेल, पूर्व विधायक जवाहर सिंह रावत सहित नगर पालिका अध्यक्ष, जनपद अध्यक्ष, जनप्रतिनिधि, विभागीय अधिकारी और बड़ी संख्या में हितग्राही उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 February 2024

bhopal, Chief Minister , World Radio Day

भोपाल। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा कि अतीत में रेडियो का बहुत महत्व था। वर्तमान में भी इसकी महत्ता निरंतर बनी हुई है। भारत में ऑल इंडिया रेडियो और आकाशवाणी ने अपनी विश्वसनीयता बनाए रखी है। गौरवान्वित होने का विषय है कि यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मन की बात द्वारा रेडियो का महत्व पुन: स्थापित किया है। रेडियो शिक्षा, मनोरंजन और सभी प्रकार की जानकारी देने के लिए आज भी जनसामान्य में अत्यंत लोकप्रिय संसाधन है। हम सभी के जीवन में रेडियो से जुड़ी कोई न कोई घटना अमिट स्मृति के रूप में विद्यमान है।     मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने सोमवार को विश्व रेडियो दिवस 13 फरवरी को प्रदेशवासियों के नाम जारी संदेश में यह बात कही और प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं दीं। उन्होंने कहा कि भारत में ऑल इंडिया रेडिया की स्थापना 8 जून 1936 को हुई। इससे पहले 1927 में मुम्बई और कलकत्ता में रेडियो क्लब ने प्रसारण किया था। संपूर्ण भारत की लगभग 99.19 प्रतिशत जनसंख्या आकाशवाणी की पहुंच में है, यह हम सबके लिए गौरव का विषय है। मध्यप्रदेश में वर्तमान में आकाशवाणी के 19 केन्द्र संचालित हैं।     मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने विश्व रेडियो दिवस पर एफएम रेडियो को बधाई देते हुए कहा कि निजीकरण और नई सूचना तकनीक का लाभ लेते हुए एफ.एम. रेडियो ने भी अपनी पहचान बनाई है। मध्यप्रदेश को गढ़ने और आगे बढ़ाने में रेडियो निरंतर अपनी भूमिका निभाता रहेगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 February 2024

bhopal, Congress alleges, BJP government

भोपाल। मध्य प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी ने कहा है कि न्यूनतम समर्थन मूल्य को लेकर किसानों के दिल्ली कूच के ऐलान के बाद राजधानी दिल्ली के सभी बॉर्डर को छावनी में तब्दील कर दिया जाना और किसानों के 13 फरवरी को राजधानी आने की खबर के बाद दिल्ली पुलिस द्वारा दिल्ली के तमाम बॉर्डर के अलावा सिंघु और टिकरी बॉर्डर पर पुलिस तैनाती करना यह बता रहा है की भाजपा की केंद्र सरकार किसानों से कितनी डरी हुई है।   जीतू पटवारी ने सोमवार को अपने एक बयान में कहा कि पुलिस ने कटीले तारों के अलावा बैरिकेड्स, सीमेंट के बड़े-बड़े ब्लॉक, कंटेनर और दूसरे अवरोधक भी लगाए हैं, पंजाब और हरियाणा से आने वाले किसानों को इसके जरिए टारगेट किया गया है। सिंघु बॉर्डर पर पुलिस ने अस्थायी कार्यालय और कंट्रोल रूम बनाने के अलावा एक किलोमीटर के दायरे में सीसीटीवी कैमरे भी लगाए हैं तथा ड्रोन की मदद से एरिया की निगरानी की जा रही है। ऐसा लग रहा है कि यह किसानों को रोकने की तैयारी नहीं बल्कि दिल्ली पुलिस की गतिविधियां युद्धकाल जैसी किसी परिस्थितियों को लेकर तैयारी करने जैसी लग रही हैं। जबकि किसान सिर्फ अपनी जायज़ मांगों को लेकर सरकार को अवगत करवाना चाहते हैं।     जीतू पटवारी ने सरकार से आग्रह किया कि अहंकारी भाजपा सरकार जितनी कोशिश आंदोलन को असफल बनाने में कर रही है, यदि उससे आधे प्रयास भी किसानों की मांगों व समस्याओं को सुनने में लगा दे तो बहुत हद तक असलियत समझ आ जाएगी। उन्होंने इस बात की भी आशंका जताई कि कि केंद्र सरकार किसानों को उकसाने वाली कार्रवाई भी कर सकती है ताकि कानून व्यवस्था के नाम पर देश के सामने किसानों की छवि खराब की जा सके।       जीतू पटवारी ने आगे कहा कि एक मुद्दा तो यह भी है कि मध्यप्रदेश में किसानों को सत्ताइस सौ रुपये प्रति क्विंटल गेहूं और एकत्तीस सौ रुपये प्रति क्विंटल धान का समर्थन मूल्य घोषित करने के बावजूद भाजपा की कथित डबल इंजन सरकार ने साफ तौर पर वादाखिलाफी की। मोहन यादव सरकार इस बात को याद रखे कि मध्य प्रदेश में भी ऐसे ही किसी बड़े किसान आंदोलन के लिए वह खुद ही अब पूरी तरह से जिम्मेदार होगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 February 2024

bhopal, Finance Minister,vote on account

भोपाल। मध्य प्रदेश विधानसभा में बजट सत्र के चौथे दिन सोमवार को डॉ. मोहन सरकार का पहला अंतरिम बजट (लेखानुदान) पेश किया गया। उप मुख्यमंत्री एवं वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा ने पटल पर वर्ष 2024-25 के लिए एक लाख 45 हजार 229.55 करोड़ रुपये का लेखानुदान प्रस्तुत किया। लेखानुदान के माध्यम से विभागों को अप्रैल से जुलाई 2024 तक विभिन्न योजनाओं में खर्च के लिए राशि आवंटित की गई है। लेखानुदान में करारोपण संबंधी नए प्रस्ताव और खर्च की नई मद शामिल नहीं है। इस मौके पर वित्त मंत्री देवड़ा ने कहा कि प्रदेश सरकार मोदी की गारंटी पर काम कर रही है। लेखानुदान की प्राप्त राशि जुलाई में पेश होने वाले पूर्ण बजट में शामिल की जाएगी।     मप्र विधानसभा के बजट सत्र का सोमवार को चौथा दिन है। सुबह 11 बजे सदन की कार्यवाही शुरू होने के बाद वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा ने पटल पर वर्ष 2024-25 के लिए लेखानुदान प्रस्तुत किया। एक लाख 45 हजार करोड़ रुपये से अधिक के लेखानुदान के माध्यम से विभागों को अप्रैल से जुलाई 2024 तक विभिन्न योजनाओं में राशि व्यय करने के लिए आवंटित की गई है। लेखानुदान में करारोपण संबंधी नए प्रस्ताव तथा व्यय के नए मद शामिल नहीं हैं। इसमें द्वितीय अनुपूरक अनुमान में शामिल नई योजनाओं के लिए प्रावधान किए गए हैं।     वित्त मंत्री देवड़ा ने कहा कि लेखानुदान द्वारा प्राप्त राशि चार माह बाद पेश होने वाले मुख्य बजट में शामिल की जाएगी। इस लेखानुदान में औद्योगिक केंद्रों के विकास, स्टार्टअप को प्रोत्साहन देने संशोधित नीति के अनुरूप अनुदान देने, सड़क नेटवर्क मजबूत करने, एक्सप्रेस-वे निर्माण को गति देने के लिए भी धनराशि का प्रावधान किया गया है। उन्होंने कहा कि अभी चार माह के लिए अंतरिम बजट लाया गया है। इसमें कोई नई योजना फिलहाल नहीं लाई जा रही है। अंतरिम बजट सभी वर्गों को ध्यान में रखकर तैयार किया गया है। सरकार आम चुनाव के बाद जुलाई में पूर्ण बजट प्रस्तुत करेगी।       2024-25 के बजट अनुमान में आय व खर्च - कुल राजस्व प्राप्तियां दो लाख 52 हजार 268.03 करोड़ रुपये - राज्य कर से राजस्व प्राप्तियां 96 हजार 553.30 करोड़ रुपये - गैर कर राजस्व प्राप्तियां 18 हजार 077.33 करोड़ रुपये - राजस्व व्यय दो लाख 51 हजार 825.13 करोड़ रुपये - पुनरीक्षित अनुमान में राजस्व व्यय 2 लाख 31 हजार 112.34 करोड़ रुपये - बजट अनुमान में राजस्व आधिक्य 442.90 करोड़ रुपये - कुल पूंजीगत प्राप्तियां का बजट अनुमान 59 हजार 718.64 करोड़ रुपये - कुल पूंजीगत परिव्यय का बजट अनुमान 59 हजार 342.48 करोड़ रुपये   लेखानुदान में मोटे अनाज की खेती को प्रोत्साहित करने के लिए रानी दुर्गावती श्रीअन्न प्रोत्साहन योजना अंतर्गत प्रति क्विंटल दी जाने वाली प्रोत्साहन राशि के लिए प्रावधान किया गया है। लाड़ली बहना को प्रतिमाह दी जाने वाली एक हजार 250 रुपये की राशि के हिसाब से चार माह का आवंटन महिला एवं बाल विकास विभाग को दिया जाएगा तो किसानों को बिना ब्याज के ऋण उपलब्ध कराने के लिए सहकारिता विभाग को ब्याज अनुदान योजना में राशि मिलेगी। तीन वर्षों के लिए 105 करोड़ रुपये की स्वीकृति सरकार ने दी है। प्रदेश में अधोसंरचना विकास के लिए सात एक्सप्रेस वे बनाए जा रहे हैं। इसके लिए लेखानुदान में अंशदान रखा गया।     लेखानुदान में विशेष पिछड़ी जनजाति (बैगा, भारिया और सहरिया) बहुल क्षेत्रों में आवास निर्माण, सामुदायिक केंद्र, आंगनबाड़ी, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क सहित अन्य कार्यों के लिए प्रधानमंत्री जन मन योजना अंतर्गत राज्यांश रखा जाएगा। तीन वर्ष में साढ़े सात हजार करोड़ रुपये इस योजना में व्यय होंगे। इसी तरह प्रधानमंत्री आवास ग्रामीण के लिए भी राज्यांश की व्यवस्था की जाएगी।     विरोध में उतरी कांग्रेस नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार ने कहा कि मोदी की गारंटी पूरी नहीं हो रही है। जमीन पर कुछ बदलाव दिखे, तब तो हम मानेंगे कि गारंटी पूरी हो रही है। घोषणाएं पूरी होती नजर नहीं आ रही है। विपक्ष के उपनेता प्रतिपक्ष हेमंत कटारे ने कहा कि जब 2023-24 का 58 फीसदी बजट ही खर्च हुआ है, जबकि 42 प्रतिशत बजट बकाया है, तो सरकार मप्र के ऊपर नया कर्जा क्यों लादना चाह रही है? हम इस लेखानुदान का समर्थन नहीं कर सकते।     कांग्रेस नेताओं को नोटिस पर बिफरे सिंघार कांग्रेस नेताओं को आयकर विभाग के नोटिस को लेकर उमंग सिंघार ने कहा कि पांच साल पहले के जवाब आज क्यों मांगे जा रहे हैं। चुनाव आ गए हैं, तो दबाव बनाने की राजनीति हो रही है। पांच साल में जवाब क्यों नहीं मांगे। यह सीधे-सीधे आईटी विभाग के माध्यम से भाजपा सरकार की कांग्रेस के नेताओं को ब्लैकमेल करने की राजनीति है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 February 2024

harda, 13 dead , 4 missing

हरदा। जिला मुख्याल के करीबी गांव बैरागढ़ स्थित पटाखा फैक्ट्री में हुए विस्फोट में अब तक 13 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं चार लोग लापता हैं। इनके परिवारों ने परिजन के लापता होने की शिकायत दर्ज कराई है। हादसे में जितने घायल हुए हैं उन सभी की शिनाख्त हो चुकी है। इनमें कोई भी लापता व्यक्ति नहीं है।   हादसे के बाद घटनास्थल से मिले दो शवों की अब तक पहचान नहीं हो पाई। दोनों शव इतनी बुरी तरह से झुलस चुके हैं कि कोई भी परिवार इनकी पहचान नहीं कर पा रहा है। पुलिस अब डीएनए जांच से इनकी शिनाख्त करेगी। इसके लिए पुलिस ने लापता लोगों के परिजन के खून के सैंपल लिए हैं।     हादसे के बाद से ये हैं लापता 50 साल की जेबुन बी अपने बेटे आबिद के साथ पटाखा फैक्ट्री में ही काम करती थी। हादसे में आबिद की मौत हो गई, लेकिन जेबुन बी लापता है। खंडवा में रहने वाली आरती धुर्वे और उनके पति सुनील पटाखा फैक्ट्री में मजदूरी करने दो साल पहले यहां आए थे। हादसे के बाद से आरती पति को खोज रही है। पटाखा फैक्ट्री में हादसे के बाद से खरगोन का रहने वाला कैलाश परमार भी लापता है। हादसे के बाद उसके परिजन खरगोन से उसकी तलाश करने हरदा पहुंचे। 24 वर्षीय धारा सिंह वास्कले का भी पता नहीं चल पा रहा है। धारा खरगोन के नागलवाड़ी गांव का रहने वाला है। उसका भाई विजय उसे ढूंढते हुए हरदा पहुंचा।   तलाश कर रही है पुलिस   इस मामले में सिविल लाइन थाने के टीआई संतोष सिंह चौहान का कहना है कि हादसे की जांच में 50 से ज्यादा पुलिसकर्मी जुटे हैं। फोरेंसिक एक्सपर्ट भी अलग-अलग एंगल से घटना की जांच कर रहे हैं। दो अज्ञात शवों की अब तक पहचान नहीं हुई है। जिन परिवारों ने गुमशुदगी दर्ज कराई है, उनके ब्लड सैंपल लेकर डीएनए जांच के जरिए शवों की पहचान के प्रयास किए जा रहे हैं। अन्य लापता लोगों को खोजने का काम भी पुलिस कर रही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 February 2024

bhopal, BJP leaders, Pt. Deendayal Upadhyay

भाेपाल। एकात्म मानववाद के प्रणेता पं. दीनदयाल उपाध्याय की पुण्यतिथि पर रविवार को प्रदेश भर में कार्यकर्ताओं ने श्रद्धासुमन अर्पित की। भोपाल के लालघाटी चौराहे पर पं. दीनदयाल की प्रतिमा पर मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव, प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा, पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान एवं प्रदेश संगठन महामंत्री हितानंद ने श्रद्धासुमन अर्पित किए। इस दौरान उपस्थित सभी नेताओं ने जयघोष के नारे लगाये।   पं. दीनदयाल उपाध्याय ने भारतीय संस्कृति की पताका दुनियाभर में फहराई- डॉ. मोहन यादव मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने पं. दीनदयाल उपाध्याय को पुष्पांजलि अर्पित करते हुए कहा कि पं. दीनदयाल उपाध्याय ने जनसंघ की स्थापना से लेकर जीवन की अंतिम सांस तक लगातार अपने पूरे जीवन को यज्ञ में आहूत की तरह समाहित करते हुए देश ही नहीं दुनिया में भारतीय संस्कृति की पताका फहराई। ‘वसुधैव कुटुम्बकम’ का भाव रखते हुए सबके प्रगति और विकास के लिए राजनीति का एक नया दर्शन दिया, जिसे दुनिया एकात्म मानव दर्शन के नाम से जानती है। आज प्रधानमंत्री झाबुआ में आयोजित जनजातीय बंधुओं के महाकुंभ को भी संबोधित करने के साथ धार-झाबुआ और खरगोन के साथ प्रदेश को 7500 करोड़ के विकास कार्यों की सौगात देंगे। धार-झाबुआ जिले में रेल और हवाई जहाज जैसी सुविधा हो यह प्रधानमंत्री जी का विजन है। मध्यप्रदेश की भाजपा सरकार प्रधानमंत्री जी के विजन को लेकर डबल इंजन की सरकार के साथ चलने को तत्पर है।   भाजपा पं. दीनदयाल उपाध्याय के विचारों पर कार्य कर रही : विष्णुदत्त शर्मा   भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए कहा कि हम सभी के श्रद्धा और आदर्श के केंद्र पं. दीनदयाल उपाध्याय ने जनसंघ से लेकर भारतीय जनता पार्टी के लिए एक ऐसा दर्शन दिया, जिसके आधार पर चलकर आज पार्टी दुनिया का सबसे बड़ा राजनीतिक दल बनी है। राजनीतिक दल बनने के बाद भारत भर में आज पंच-सरपंच से लेकर देश के प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति तक भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता हैं। पार्टी के कार्यकर्ता पं. दीनदयाल उपाध्याय के एकात्म मानव दर्शन व अंत्योदय के विचार को प्रतिपादित करने का काम कर रहे हैं। पं. उपाध्याय ने जो विचार दिया उसे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश में और मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव के नेतृत्व में प्रदेश में हर गरीब का जीवन बदलने का काम हमारी सरकार कर रही हैं। भाजपा लगातार पं. दीनदयाल उपाध्याय जी के विचारों पर कार्य कर रही है।   इस अवसर पर प्रदेश शासन की मंत्री कृष्णा गौर, विधायक रामेश्वर शर्मा, महापौर मालती राय, भोपाल जिला अध्यक्ष सुमित पचौरी सहित जनप्रतिनिधि, जिला पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 February 2024

jhabua, Congress, Prime Minister Modi

झाबुआ। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि मैं हाल ही में दक्षिण में गया था, वहां राम मंदिर को लेकर अनुष्ठान के समय मैंने जनता का उत्साह देखा। मैं वहां पूजा पाठ के लिए गया था। जनता मुझे आशीर्वाद देने आई। मैंने वहां आशीर्वाद की ताकत को महसूस किया है। मैं कल्पना नहीं कर सकता कि आपके सेवक को आप इतना आशीर्वाद देते हैं। कितने जन्मों के पुण्य के बाद मुझे आपका आशीर्वाद मिला। साल 2023 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की छुट्टी हुई थी, अब 2024 में कांग्रेस का सफाया तय है।     प्रधानमंत्री मोदी रविवार को मध्य प्रदेश के प्रवास के दौरान झाबुआ के गोपालपुरा में आयोजित जनजातीय सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कार्यक्रम के जरिए मध्य प्रदेश में 2024 लोकसभा चुनाव प्रचार का आगाज किया।     झाबुआ जितना मध्यप्रदेश से जुड़ा है उतना ही गुजरात से प्रधानमंत्री ने कार्यक्रम में आए लोगों का गुजराती में अभिवादन किया। उन्होंने झाबुआ की पावन मिट्टी को नमन करते हुए कहा कि माताओं-बहनों और जनजातीय समाज को आदरपूर्वक नमन। सभी को देखकर मन में वैसी ही खुशी हो रही है, जैसे परिजनों को देखकर होती है। झाबुआ जितना मध्यप्रदेश से जुड़ा है, उतना ही गुजरात से जुड़ा है। यहाँ रहते हुए मुझे यहाँ के जनजीवन और परम्पराओं से करीब से जुड़ने का मौका मिला था। आपके बीच आकर वही भाव ताजा हो जाता है। इन दिनों इस क्षेत्र में भगोरिया की तैयारी चल रही होगी। मै आप सभी को भगोरिया की शुभकामनाएं देता हूं। भगोरिया से पहले मुझे यहां ढेर सारी सौगात आपके चरणों में सुपुर्द करने का सौभाग्य मिला है।     यहां आने से पहले मैने देखा कि मेरी यात्रा को लेकर चर्चाएं हो रही है। कुछ लोग कह रहे हैं, मोदी मप्र में झाबुआ से लोकसभा की लड़ाई का आगाज करेगा। मैं बताना चाहता हूं मोदी लोकसभा चुनाव के प्रचार के लिए नहीं आया है। मै मप्र की जनता का आभार मानने आया हूं। मप्र में विस चुनाव के नतीजों से पहले आप पहले ही बता चुके हैं, लोकसभा के लिए आपका क्या मूड है।     इस दौरान प्रधानमंत्री ने अबकी बार 400 पार का नारा भी दोहराया। पीएम ने कहा कि एनडीए की 400 पास की बात मैं भी सुन रहा हूं। लेकिन अकेली भाजपा 370 पार करेगी। उन्होंने मौजूद लोगों से चुनाव की तैयारी में जुट जाने की अपील करते हुए कहा कि आपको यहां से आकर एक ही काम करना है। पिछले तीन चुनाव में आपके यहां पोलिंग बूथ में क्या रिजल्ट आया था, उसे निकालो और कितने वोट पड़े वह निकालो और कमल को किस पोलिंग बूथ पर ज्यादा वोट मिले उसे लिख लो और जहां ज्यादा वोट मिले वहां 370 वोट ज्यादा मिलने चाहिए, ऐसी तैयारी करें।     देश के उज्जवल भविष्य की गारंटी है आदिवासी समाज प्रधानमंत्री ने कहा कि मध्यप्रदेश को बीमार बनाने के पीछे कांग्रेस का गाँव, गरीब और आदिवासी समाज के प्रति नफरत भरा रवैया था। कांग्रेस के लिए आदिवासी का मतलब कुछ वोट होता है। इन्हें गरीबों की याद सिर्फ चुनाव के समय याद आती थी। अटल जी की सरकार ने आदिवासियों के लिए अलग मंत्रालय बनाया। ये भाजपा की सरकार है, जिसने वन उपज पर एमएसपी में वृद्धि की। करीब 90 वन उत्पादों को एमएसपी के अंतर्गत लाया गया। हमारे लिए जनजातीय समाज वोट बैंक नहीं देश का गौरव है। देश के उज्जवल भविष्य की गारंटी है आदिवासी समाज।     उन्होंने कहा कि भगवान बिरसा मुदा की जयंती को जनजातीय गौरव दिवस, तांत्या मामा भील के लिए शहीदी दिवस मनाया जाता है। आज तिलक मांझी का दिवस है। उन्होंने बिहार के भागलपुर में 1784 में अंग्रेजी अफसर को तीर मार दिया था। आज जिन परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण हुआ उससे आदिवासी बच्चों को लाभ होगा।     सबसे पिछड़े और सबसे वंचित हमारी सरकार की प्राथमिकता मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने इतने वर्षों में सिर्फ 100 एकलव्य स्कूल खोले, जबकि भाजपा की सरकार ने इससे चार गुना ज्यादा स्कूल खोले हैं। एक भी आदिवासी बच्चा शिक्षा के आभाव में रह जाए यह संभव नहीं। भाजपा ने वन संपदा कानून में सुधार किया और आदिवासियों को उनके अधिकार लौटाए। इसके अलावा सिकल सेल एनीमिया के लिए हमारी सरकार ने काम किया। आज स्वामित्व योजना के माध्यम से लोगों को उनकी जमीन के कागज़ दिए जा रहे हैं। आज भी लाखों लोगों को स्वामित्व अधिकार पत्र दिए हैं। ये वो सुरक्षा पत्र है, जिससे जमीन विवाद में सुरक्षा मिलती है। लोगों की दो-जो पीढ़ी कोर्ट के चक्कर लगाती रहती थी। जो सबसे पिछड़े और सबसे वंचित है वही हमारी सरकार की प्राथमिकता है।   लूट और लड़ाई कांग्रेस के लिए ऑक्सीजन प्रधानमंत्री ने इस दौरान कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस अपने पापों के दलदल में फंस गई है। कांग्रेस अपनी हार सामने देखकर आखिरी दांव पेंच इस्तेमाल कर रहे हैं। जब ये सत्ता में रहते हैं तो लूटते हैं जब सत्ता से बाहर होते हैं तो लोगों को लड़वाते हैं। लूट और लड़ाई इनके लिए ऑक्सीजन है। ये लोग जाती, भाषा और इलाकों के नाम पर टूट करवाने में लगे हैं, लेकिन देश इनके मंसूबे कभी सफल नहीं होने देगा। ये लोग आदिवासी समाज का वोट मांगने तो आते हैं लेकिन जब एक आदिवासी महिला राष्ट्रपति बनाई जाती है तो अपना प्रतिनिधि उनके सामने खड़े कर देते हैं। आदिवासियों के लिए पक्के घर बनवाने के लिए ये लोग मोदी को गाली देते हैं। कांग्रेस को तो बस अपने महल की चिंता थी उन्होंने कहा कि हमारी सरकार मध्यप्रदेश के आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्स्चर विकास के लिए काम कर रही है। पिछली सरकारों के मुकाबले हम 24 गुना ज्यादा पैसा मध्यप्रदेश को दे रहे हैं। आज एक एक सेक्टर में करोड़ों रुपये भेजा जा रहा है। पहले जनजाति इलाकों तक रेल, सड़क की परियोजना पहुँचती ही नहीं थी क्योंकि कांग्रेस को तो बस अपने महल की चिंता थी। कांग्रेस के स्थानीय नेता आलाकमान से कहने लगे हैं कि, मोदी के खिलाफ अब किस मुंह से वोट माँगने जाएँ। कोई नेता जिम्मेदारी नहीं उठाना इस समय मध्यप्रदेश कांग्रेस के अंतरखानों में खूब भगदड़ मची है। जनता की उपेक्षा करने का यही फल होता है।   इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी जनजातीय सम्मेलन में 7500 करोड़ की सड़क, रेल, बिजली और जल क्षेत्र से संबंधित 22 विभिन्न विकास परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण कर राष्ट्र को समर्पित किया। प्रधानमंत्री मोदी रथ पर सवार होकर लोगों का अभिवादन करते हुए जनजातीय सम्मेलन के मंच तक पहुंचे। जनजातीय महासम्मेलन के मंच पर पहुंचने पर राज्यपाल मंगुभाई पटेल एवं मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने पुष्प गुच्छ भेंट कर उनका आत्मीय स्वागत व अभिनंदन किया। कार्यक्रम में शामिल होने के लिए अलग-अलग जिलों से बड़ी संख्या में आदिवासी समाज के लोग पहुंचे हैं। लोगों ने मोदी-मोदी ने नारे लगाकर उनका स्वागत किया। प्रधानमंत्री को आदिवासी जैकेट, पीला साफा, वनवासी राम का मोमेंटो और आदिवासी तीर कमान भेंट किया गया। कार्यक्रम से पूर्व पीएम मोदी ने जनजातीय महासम्मेलन में विभिन्न विकास कार्यों पर आधारित प्रदर्शनी का अवलोकन किया। इस दौरान उनके साथ केंद्रीय जनजातीय मंत्री अर्जुन मुंडा, राज्यपाल मंगू भाई पटेल और मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव भी मौजूद थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 February 2024

bhopal, BJP works , Jamwal

सागर। भारतीय जनता पार्टी विश्व का सबसे बड़ा राजनैतिक दल है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी दुनिया के सर्वाधिक लोकप्रिय नेता है। प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भारत निरंतर प्रगति के पथ पर चलते हुए परम वैभव की ओर आगे बढ़ रहा है। उनकी बढ़ती लोकप्रियता से विरोधी बेचैन हैं और भारतीय जनता पार्टी और प्रधानमंत्री को रोकने के लिए एक साथ खड़े हैं। भारतीय जनता पार्टी सत्ता के लिए काम नहीं करती, बल्कि एक लक्ष्य और विचार के लिए काम करती है। इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए हमें मोदी को तीसरी बार प्रधानमंत्री बनाना है। यह बात भारतीय जनता पार्टी के क्षेत्रीय संगठन महामंत्री अजय जामवाल ने सागर में लोकसभा क्षेत्र की बैठक को संबोधित करते हुए कही। बैठक को वरिष्ठ नेता व सागर क्लस्टर प्रभारी डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने भी संबोधित किया। 10 प्रतिशत वोट बढ़ाने को लेकर कार्य करना है जामवाल ने कहा कि विधानसभा चुनाव में मध्यप्रदेश में कार्यकर्ताओं के अथक परिश्रम से ऐतिहासिक विजय मिली है। प्रधानमंत्री मोदी को लेकर देश भर में उत्साह का वातावरण है। भाजपा पर प्रभु श्रीराम की भी कृपा है। उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा कि चुनाव छोटा हो या बड़ा, हमें पूरी तैयारी और योजना के साथ कार्य करना है। हम सभी को अपनी-अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन करते हुए संगठनात्मक कार्यों से बूथ को और मजबूती प्रदान करना है। जो बूथ विधानसभा चुनाव में हम जीते हैं वहां 10 प्रतिशत वोट बढ़ाने के साथ हारे हुए बूथों को जीतने का लक्ष्य लेकर कार्य करें। बूथ कार्यकर्ता पार्टी की बहुत महत्वपूर्ण इकाई होती है। बूथ की जीत ही भाजपा को लोकसभा चुनाव में ऐतिहासिक विजय दिलाएगी। कार्यकर्ता अपना-अपना बूथ जीतने के लिए समाज के अलग-अलग वर्गों, प्रबुद्ध लोगों, अलग-अलग व्यवसाय के साथ समाजसेवा के क्षेत्र में कार्य करने वाले लोगों को पार्टी से जोड़ने का काम करें। उन्होंने 25 फरवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मन की बात कार्यक्रम को प्रत्येक बूथ पर स्थानीय लोगों के साथ सुनने का आग्रह किया। जनता प्रभु श्रीराम के चरणों में मतदान करने का मन बना चुकी है: डॉ. नरोत्तम मिश्रा पार्टी के वरिष्ठ नेता व सागर क्लस्टर प्रभारी डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में अयोध्या में प्रभु श्रीरामलला की प्राण प्रतिष्ठा से देश का वातावरण भगवामय हो गया है। देश की जनता राष्ट्रवाद के मुद्दे पर मतदान करने का मन बना चुकी है। प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में देश में हो रहे गरीब कल्याण और विकास कार्यों को देखकर विपक्ष के पास कहने को कुछ बचा नही हैं। लगातार कांग्रेस के नेता भाजपा की सदस्यता ले रहे हैं। महाकौशल में कांग्रेस लगभग समाप्त होने की कगार पर है। यही क्रम बुंदेलखंड में भी देखने को मिलेगा। हमें प्रत्येक बूथ पर अधिक से अधिक वोट प्राप्त करने के लक्ष्य के साथ कार्य करना है। मतदान प्रतिशत बढ़ाने में पन्ना प्रभारी की महत्वपूर्ण भूमिका रहती है, इसलिए हम सभी कार्यकर्ताओं को बूथ इकाई को और मजबूत करने के लिए प्राणपण से जुटना है। इस दौरान मंच पर प्रदेश शासन के मंत्री गोविंद सिंह राजपूत, सागर संभाग प्रभारी चौधरी मुकेश सिंह चतुर्वेदी, प्रदेश मंत्री व लोकसभा संयोजक प्रभुदयाल पटेल, प्रदेश मंत्री लता वानखेड़े, सागर लोकसभा प्रभारी जयप्रकाश चतुर्वेदी, लोकसभा सह संयोजक श्याम तिवारी मौजूद रहे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 February 2024

bhopal, Raghogarh ,Vishnudutt Sharma

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा पार्टी द्वारा देशभर में चलाए जा रहे गांव चलो अभियान के तहत गुना जिले की राघौगढ़ विधानसभा के ग्राम आवन में प्रवास पर हैं। गांव में अपने प्रवास के दूसरे दिन शुक्रवार को उन्होंने प्रातः आचार्य वाचस्पति शुक्ल संस्कृत वेद विद्यालय में छात्रों के साथ योग किया। योग के पश्चात आवन हनुमान मंदिर प्रांगण में स्वच्छता कार्यक्रम में शामिल हुए। उन्होंने चाय की दुकान पर ग्रामीणों से चर्चा कर केन्द्र और राज्य सरकार की योजनाओं से अवगत कराया। उन्होंने चाय की दुकान पर यूपीआई के माध्यम से भुगतान करते हुए कहा कि इस छोटे से गांव में भी लोग डिजिटल पेमेंट कर रहे हैं यह नए भारत का उदय है। ग्रामीण अंचल में भी डिजिटल पेमेंट की सुविधा और चलन होना यह बताता है कि एमपी के मन में है मोदी और मोदी के मन में एमपी है।   प्रदेश अध्यक्ष ने दीवार लेखन कर ग्रामीणजनों को बांटे पत्रक   पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष ने आवन गांव के वार्ड क्रमांक-13 में दीवार लेखन किया। उन्होंने बूथ टोली के साथ घर-घर जाकर ग्रामीणों से संपर्क किया और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा की डबल इंजन सरकार द्वारा किए जा रहे गरीब कल्याण, जनकल्याण और जनहितैषी योजनाओं की जानकारी दी।     वोट बैंक नहीं, सेवा ही प्रधानमंत्री का लक्ष्य   वीडी शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कभी वोट बैंक की राजनीति नहीं की। वे सेवा भाव के साथ हर गरीब के कल्याण के लिए सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास के मंत्र पर काम करते हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी ने आदिवासी भाई-बहनों के लिए उत्थान के लिए हमेशा कार्य किया है। 2023 के मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव में आदिवासी भाई बहनों का आशीर्वाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मिला। इसलिए उन्होंने कहा कि मैं झाबुआ आऊंगा और लोकसभा चुनाव में भी भाजपा को आदिवासी भाई-बहनों का भरपूर आशीर्वाद मिलेगा।     कांग्रेस कार्यकर्ताओं को दिलाई सदस्यता   शर्मा ने आवन गांव में बूथ स्तर पर कांग्रेस के ऋषिराज सिंह राजपूत, गोपालसिंह लोधा, पप्पू लोधा, विकास लोधा सहित एक दर्जन से अधिक कार्यकर्ताओं और समाजसेवियों को भाजपा की सदस्यता दिलाई।     की-वोटर्स से किया संवाद   विष्णुदत्त शर्मा ने आवन गांव में “गांव चलो अभियान” के तहत बूथ क्र.-94, 95, 96 व 97 के “की-वोटर्स“ से संवाद किया। ग्रामीणजनों को केंद्र व प्रदेश सरकार की जनहितैषी योजनाओं के पत्रक वितरित किए। शर्मा ने गांव के शिव मंदिर में भगवान भोलेनाथ का पूजन-अर्चन कर प्रदेशवासियों के सुख-समृद्धि की कामना की। उन्होंने पार्टी के कार्यकर्ता बंटी पाल के निवास पर भोजन किया एवं परिवारजनों से भेंट की।     11 फरवरी को झाबुआ में होगी प्रधानमंत्री की रैली   विष्णुदत्त शर्मा ने मीडिया से बातचीत में कहा कि प्रधानमंत्री मोदी 11 फरवरी को झाबुआ में आयोजित की जा रही ऐतिहासिक जनजातीय रैली में शामिल होंगे। प्रधानमंत्री मोदी के झाबुआ आगमन को लेकर पार्टी के सभी कार्यकर्ता व्यापक तैयारी में जुटे हैं। मैं सबसे अपील करता हूं कि प्रधानमंत्री जी का जोरदार स्वागत करें और रैली में शामिल होकर इस ऐतिहासिक पल के साक्षी बनें।   इस दौरान प्रदेश मीडिया प्रभारी आशीष अग्रवाल, जिला अध्यक्ष धमेन्द्र सिंह सिकरवार, राजगढ़ लोकसभा प्रभारी विकास विरानी, जिला महामंत्री प्रदीप औदिच्य, जिला मंत्री संतोष धाकड़, सुशील दहीफले, विकास जैन, मंडल अध्यक्ष अंकित शर्मा, प्रकाश भार्गव सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 February 2024

jabalpur, Eight students, coming late

जबलपुर। मप्र में इन दिनों माध्यमिक शिक्षा मंडल की बोर्ड परीक्षाएं चल रही हैं। शुक्रवार को कक्षा दसवीं की परीक्षा का संस्कृत विषय का पेपर हुआ। इस दौरान जबलपुर के एक स्कूल में दस मिनट देरी से आने पर 10वीं के आठ विद्यार्थियों को परीक्षा में नहीं बैठने दिया गया। इसकी जानकारी लगते ही परिजन स्कूल पहुंच गए और जमकर हंगामा किया। मामले की जानकारी लगते ही मौके पर पुलिस भी पहुंच गई। स्कूल प्रबंधन का कहना है कि शासन के नियम अनुसार सुबह 8:45 बजे के बाद स्कूल के गेट नहीं खोले जाने थे, जबकि परिजनों ने आरोप लगाया कि स्कूल प्रबंधन ने सुबह 8:30 बजे ही गेट बंद कर दिए थे।     जानकारी के अनुसार, शुक्रवार को सुबह जबलपुर के रांझी क्षेत्र में स्थित खालसा स्कूल में जब कक्षा दसवीं के छात्र संस्कृत का पेपर देने पहुंचे तो उनमें से आठ छात्रों को परीक्षा प्रबंधकों द्वारा पेपर देने नहीं दिया गया। परीक्षा नहीं देने की बात सुनकर एक छात्रा वहीं पर बेहोश हो गई। इसकी जानकारी लगते ही छात्रों के परिजन भी स्कूल पहुंच गए और हंगामा मचाना शुरू कर दिया। इस संबंध में एक परिजन ने बताया कि उनका बेटा सुबह ठीक 8 बजकर 35 मिनट पर खालसा स्कूल पेपर देने के लिए पहुंच गया था। वह जैसे ही स्कूल के गेट पर पहुंचा तो उसे गेट बंद पाया मिला। इसी प्रकार कुल आठ छात्र परीक्षा देने अंदर नहीं जा पाए। स्कूल प्रशासन ने सुबह 8 बजकर 30 मिनिट पर ही गेट बंद कर दिए, जबकि गेट बंद करने का समय 8 बजकर 45 मिनिट है।     हंगामे की जानकारी लगते ही रांझी थाने की पुलिस भी स्कूल पहुंच गई और उचित कार्रवाई का आश्वासन देकर परिजनों को शांत कराया। इस संबंध में स्कूल प्रशासन का कहना है कि उन्होंने शासन के निर्देशानुसार तय समय पर ही स्कूल का गेट बंद किया था। खालसा स्कूल रांझी के सहसचिव दमनीत सिंह प्रिंस भसीन ने बताया कि जैसे ही हमें इस बात की जानकारी मिली तुरंत स्कूल पहुंचे। केंद्राध्यक्ष दीप्ति शर्मा ने कहा कि विद्यार्थी आठ बजकर 57 मिनट पर स्कूल पहुंचे थे, जबकि हमें आठ बजकर 40 मिनट तक ही परीक्षा केंद्र में पहुंचने की अनुमति है। इसके बाद ही हमने आठ बजकर 47 मिनिट तक गेट खुला रखा, लेकिन विद्यार्थी उसके बाद परीक्षा देने पहुंचे।     वहीं, पेपर नहीं दे पाने वाले छात्रों ने बताया कि उन्हें दसवीं बोर्ड की गंभीरता मालूम है, जिसके चलते वे सही समय पर स्कूल पेपर देने के लिए पहुंचे थे। छात्रों ने बताया कि उन्होंने संस्कृत विषय को लेकर बहुत तैयारी की थी, लेकिन परीक्षा न देने मिलने से उनको बहुत बड़ा नुकसान हो गया है, जिसका खामियाजा उन्हें आगे भुगतना पड़ेगा।     छात्रा अंशु कुशवाहा के पिता अशोक कुशवाहा ने बताया कि समय पर ही परीक्षा केंद्र पहुंच गए थे, लेकिन गेट सुबह साढ़े आठ बजे ही बंद कर दिए गए। अगर स्कूल में कैमरा लगा हो तो टाइम भी देख सकते हैं कि हम समय पर पहुंच गए। पेपर नहीं देने की बात से बच्ची की तबीयत खराब हो गई। छात्रा के पिता का कहना है कि बेटी पढ़ने में बहुत तेज है। वो इस बात को सहन नहीं कर पा रही है। वह बेहोश हो गई थी। उसे तुरंत ही डॉक्टर के पास उपचार लेकर गए। बेटी को सदमा सा लग गया है। डाक्टर ने एमआरआई करने के लिए कहा है। बेटी को पेपर देने के लिए हम बहुत गिड़गिड़ाएं लेने उसे पेपर नहीं देने दिया गया। मजदूरी करके बेटी को पढ़ा रहा हूं। पेपर नहीं दे पाने के कारण उसका भविष्य खराब हो गया है।     इस मामले में जिला शिक्षा अधिकारी घनश्याम सोनी ने बताया कि स्कूल में हंगामा होने के बाद लगभग साढ़े नौ बजे केंद्राध्यक्ष का काल आया। उन्होंने बताया कि कुछ विद्यार्थी नौ बजे के बाद परीक्षा केंद्र पहुंचे, जबकि नियमानुसार आठ बजकर चालीस मिनट तक ही विद्यार्थियों को परीक्षा केंद्र पहुंचना होगा। विशेष परिस्थितियां में कुछ समय तक की छूट दी गई है। सुबह परीक्षा केंद्र में केंद्राध्यक्ष के साथ कलेक्टर प्रतिनिधि, सहायक प्रतिनिधि भी मौजूद थे। मैं सुबह पाटन केंद्र में आ गया था। स्कूल पहुंचकर मामले की जांच करेंगे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 February 2024

bhopal,  opposition in assembly , Narasimha Rao

भोपाल। केंद्र सरकार ने शुक्रवार को पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह, पीवी नरसिम्हा राव और वैज्ञानिक एमएस स्वामीनाथन को सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘भारत रत्न’ देने का ऐलान किया है। पूर्व प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव को भारत रत्न देने पर मध्य प्रदेश विधानसभा के बजट सत्र के दौरान विपक्ष ने जमकर हंगामा किया। सत्तापक्ष और विपक्ष के बीच इसको लेकर जमकर नोंक-झोक हुई।   मध्यप्रदेश विधानसभा के बजट सत्र के तीसरे दिन शुक्रवार को सदन में पहले अवैध खनन को लेकर विपक्ष ने हंगामा किया। सरकार की तरफ से विपक्ष के सवालों का जवाब दिया गया। इसके बाद गुरुवार को विधानसभा में पेश किए गए 30,265 करोड़ रुपये के अनुपूरक बजट पर चर्चा शुरू हुई। चर्चा के लिए विधानसभा अध्यक्ष नरेन्द्र सिंह तोमर ने दो घंटे का समय तय किया है। इस दौरान कुछ देर के लिए लाडली बहना का मुद्दा गरमाया और फिर पूर्व प्रधानमंत्री नरसिम्हा राव को भारत रत्न देने पर सरकार और कांग्रेस के विधायकों के बीच बहस हुई।   नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि भारत रत्न देने में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पक्षपात नहीं किया। विपक्ष के लोगों को भी भारत रत्न देने का काम किया। पूर्व प्रधानमंत्री नरसिम्हा राव भी शामिल हैं। इस पर कांग्रेस विधायक बाला बच्चन ने कहा कि कांग्रेस ने नरसिम्हा राव को प्रधानमंत्री बनाने का काम किया है। मंत्री विजयवर्गीय ने कहा कि जब पूर्व प्रधानमंत्री राव की मृत्यु हुई और उनका पार्थिव शरीर कांग्रेस कार्यालय ले जाया जा रहा था, तो कांग्रेस के तत्कालीन राष्ट्रीय महासचिव ने ऐसा करने से रोक दिया था। यह नरसिंह राव का अपमान था। इस पर सत्ता पक्ष और विपक्ष के सदस्यों में जमकर बहस हुई। कांग्रेस विधायक रामनिवास रावत ने कहा कि भाजपा सरकार ने मुंह देखकर विकास के काम कराए हैं। अनुपूरक बजट में ही विश्वास को तोड़ा। लाडली महिलाओं को तीन हजार रुपये देने की बात करने वाली भाजपा अब तक इस पर अमल नहीं कर सकी है। हर महीने लाडली बहनों की संख्या घटती जा रही है। वहीं, विधायक नितेंद्र सिंह राठौड़ ने सदन में नौकरी का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि हर साल नौजवान भर्ती के लिए तैयारी करते हैं, लेकिन भर्ती नहीं होती। सरकार भर्ती नहीं कर सकती तो स्पष्ट मना कर दे, युवाओं को छलने का काम न करें। मंत्री नरेंद्र शिवाजी पटेल ने विधायक राठौर के सवाल पर कहा कि भर्ती में थोड़ा विलंब हुआ है, लेकिन सरकार लगातार प्रयास कर रही है। पदोन्नति पर न्यायालय की रोक है, लेकिन इसका समाधान निकाला जा रहा है। इससे पहले सदन में अवैध खनन पर जमकर सत्तापक्ष और विपक्ष के बीच बहस हुई। कांग्रेस विधायक सुरेश राजे ने अवैध खनन का मुद्दा उठाया। उन्होंने सत्ता पक्ष पर अवैध उत्खनन का आरोप लगाया। विपक्षी सदस्यों के सवाल पर मंत्री दिलीप अहिरवार सदन में कहा कि अवैध खनन को रोकने के लिए कैमरे लगाएंगे। मुख्यमंत्री ने इसका निर्णय लिया है। इससे अवैध खनन रोकने पर मदद मिलेगी। इस पर कांग्रेस के दिनेश राय मुनमुन, सुरेश राजे, विजय रेवनाथ चौरे, महेश परमार, शेखावत समेत अन्य विधायकों ने कहा कि पहली बार के मंत्री सही जवाब नहीं दे पा रहे हैं। विधायक भंवर सिंह शेखावत ने कहा कि रेत और खनन माफिया न प्रशासन को और नहीं शासन को मानता है। इसी दौरान सत्तापक्ष की ओर से मंत्री तुलसी सिलावट कुछ कहने के लिए खड़े हुए तो विधायक शेखावत ने उन्हें कहा कि आप बैठिए। उनके क्षेत्र में खनन करने वाला आपका मित्र है। आदिवासी किसान को तहसीलदार द्वारा थप्पड़ मारने का मुद्दा भी सदन में गूंजा विधानसभा में अनुपूरक बजट पर चर्चा के दौरान सदन में एक आदिवासी किसान को तहसीलदार द्वारा थप्पड़ मारने का मुद्दा भी गूंजा। इस पर राजस्व मंत्री करण सिंह वर्मा ने सदन में ही संबंधित तहसीलदार को निलंबित करने की घोषणा कर दी। गौरतलब है कि गुरुवार को बड़वानी जिले के पानसेमल तहसील का आदिवासी किसान को थप्पड़ मारने का वीडियो सामने आया था। सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद कलेक्टर ने पानसेमल के प्रभारी तहसीलदार हितेंद्र भावसार को हटा दिया था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 February 2024

bhopal, Harda ,firecracker factory explosion

भोपाल। मप्र विधानसभा के बजट सत्र के दूसरे दिन गुरुवार को सदन में हरदा पटाखा फैक्ट्री विस्फोट कांड की गूंज सुनाई दी। कांग्रेस के विधायकों ने हरदा में पटाखा फैक्ट्री में हुए भीषण विस्फोट मामले की न्यायिक जांच की मांग को लेकर जमकर हंगामा किया। भाजपा सरकार ने जब मांग नहीं मानी तो कांग्रेस विधायकों ने नारेबाजी करते हुए विधानसभा से वॉकआउट कर दिया। कांग्रेस नेता उमंग सिंघार ने कहा कि मामले की अधिकारी जांच करेंगे तो वह अपने साथियों को बचाएंगे। मामले की न्यायिक जांच करानी चाहिए।   सदन में गुरुवार को प्रश्नकाल के बाद कांग्रेस के सदस्यों ने हरदा विस्फोट को लेकर स्थगन प्रस्ताव देकर चर्चा कराने की मांग की, जिसे विधानसभा अध्यक्ष नरेंद्र सिंह तोमर ने स्वीकार कर लिया और चर्चा के लिए डेढ़ घंटे के समय निर्धारित किया। विपक्ष ने सदन में मामले की न्यायिक जांच कराने की मांग उठाई। इस पर मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने यह करते हुए इनकार कर दिया कि विस्फोट मामले की जांच कराई जा रही है, जो दोषी होगा उस पर कार्रवाई की जाएगी।   विपक्ष द्वारा लाए गए स्थगन प्रस्ताव पर चर्चा में मुख्यमंत्री डॉ यादव ने कहा कि जांच कराई जा रही है। कितना ही बड़ा अधिकारी क्यों न हो, दोषी को नहीं छोड़ा जाएगा। पूरे प्रदेश में जांच के लिए टीम गठित कर दी है। मैं इस बात में नहीं पड़ना चाहता हूं कि तीन वर्ष पहले किसकी सरकार थी। यह दुर्भाग्यपूर्ण घटना हुई है। जैसे ही इसकी जानकारी लगी तो मंत्री राव उदय प्रताप सिंह को अधिकारियों के साथ भेजा। तत्काल सभी कलेक्टरों की आपात बैठक बुलाई गई। जो वीडियो देखा था, उससे ऐसा लग रहा था मानो परमाणु बम फूट गया हो। केंद्रीय गृहमंत्री को तत्काल सूचना दी गई, क्योंकि तब तक घटना के संबंध में कोई ठोस जानकारी नहीं थी। 100 फायर ब्रिगेड, 50 एंबुलेंस भेजी, अस्पतालों में तैयारी की गई, ग्रीन कॉरिडोर बनाए गए। यदि किसी को बाहर भेजने की आवश्यकता होगी तो उपचार के लिए अवश्य भेजा जाएगा। यह भी देखा जाएगा कि ऐसी फैक्ट्री के आसपास किसी तरह की बस्ती न हो। विपक्ष ने इस पूरे मामले की जांच के लिए न्यायिक आयोग गठित करने की मांग की, जिसे नहीं माना गया। इसके बाद विपक्ष ने बहिर्गमन कर विरोध जताया और सदन के बाहर नारेबाजी की। नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार ने कहा कि हरदा ब्लास्ट ने राज्य ही नहीं पूरे देश को हिला कर रखा दिया है। हमने सरकार की पूरी बात सुनी, मगर हमारी मांग है कि इस मामले में न्यायिक जांच हो, पहले भी प्रदेश में इस तरह की कई घटनाएं हुई हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार अधिकारियों को बचाने का प्रयास कर रही है। जांच के नाम पर लीपापोती हो रही है। तत्कालीन संभाग आयुक्त पर अभी तक कोई कार्यवाही नहीं की गई है। कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक को हटाए जाने पर भी विपक्ष ने कहा कि यह कोई कार्रवाई नहीं है, सिर्फ दिखावा है। हम बस इतना चाहते हैं कि दोषियों पर सख्त कार्रवाई हो।   कांग्रेस विधायकों ने आरोप लगाया कि अधिकारियों की मिलीभगत से ही हरदा में वह फैक्ट्री संचालित हो रही थी, जो कई लोगों की मौत का कारण बनीं। विपक्ष के उप नेता हेमंत कटारे ने कहा कि कई लोग अपने परिचितों को तलाश रहे हैं। ट्रांसफर करना-हटाना कोई कार्रवाई नहीं है। रामनिवास रावत ने कहा कि यह कोई पहली घटना नहीं है। इससे पहले 2015 में भी हरदा में घटना हुई थी पेटलावद में भी घटना हो चुकी है, लेकिन अभी तक सरकार ने सदन में रिपोर्ट ही नहीं रखी है, जबकि यदि रिपोर्ट प्रस्तुत कर जाती तो संभव है कि ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति न हो, उसके संबंध में कोई व्यवस्था बन जाती। वहीं, पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि यह बहुत बड़ी दुर्घटना है, लापरवाही और भ्रष्टाचार है।   स्कूल शिक्षा एवं परिवहन मंत्री राव उदय प्रताप सिंह ने घटना के बाद किए गए घटनास्थल के निरीक्षण और सरकार द्वारा की गई व्यवस्थाओं की जानकारी सदन को दी। वहीं, विश्वास सारंग ने जब गिरफ्तार आरोपितों के नाम के साथ जी का उल्लेख किया तो विपक्ष ने इस पर आपत्ति जताई और कहा कि वे लोग सम्मान के हकदार नहीं हैं। कई लोगों की जान गई है। सारंग ने भी तत्काल गलती सुधारते हुए कहा कि मैं अपने शब्द वापस लेता हूं।   हरदा से कांग्रेस विधायक आरके दोगने ने कहा कि पटाखा फैक्ट्री में जब यह भीषण हादसा हुआ, उस वक्त वहां बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे। पटाखा फैक्ट्री में जो तलघर है उसे खोलकर देखा जाना चाहिए। लेकिन मुख्यमंत्री के हरदा से वापस लौटकर आने के बाद जांच बंद कर दी गई है। रेस्क्यू भी खत्म कर दिया गया है, जबकि तलघर में बड़े पैमाने पर लोग हो सकते हैं।   इसको लेकर भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा ने कहा कि बम, पटाखा, आतंकवाद इनकी जड़ कांग्रेस ही है। विपक्ष के विधायकों को चाहिए कि इस तरह का आचरण न करें और सदन की कार्यवाही में सहयोग करें।   ऊर्जा मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर ने कहा कि कांग्रेस के पास कोई मुद्दा नहीं है, इसलिए कांग्रेस नौटंकी कर रही है। इस संवेदनशील मामले को लेकर कांग्रेस के बड़े नेता क्यों हरदा नहीं गए? उन्होंने कमलनाथ पर निशाना साधते हुए कहा कि कमलनाथ हरदा पीड़ितों से मिलने क्यों नहीं गए? हमारे मुख्यमंत्री और दूसरे मंत्री तत्काल हरदा पहुंचे। हमारी सरकार पीड़ितों के साथ खड़ी है। कांग्रेस के विधायक ने इसके पहले कभी शिकायत नहीं की और आज नौटंकी कर रहे हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  8 February 2024

bhopal, Finance Minister, second supplementary estimate

भोपाल। मध्य प्रदेश विधानसभा के बजट सत्र के दूसरे दिन गुरुवार को वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा ने सदन में राज्य सरकार का 30 हजार 265 करोड़ 15 लाख रुपये का द्वितीय अनुपूरक अनुमान प्रस्तुत किया। इसमें ऊर्जा विभाग के अंतर्गत विद्युत वितरण कंपनियों को उदय योजना के तहत अंश पूंजी के लिए 13365 करोड़ रुपये, समग्र शिक्षा अभियान के लिए 350 करोड़ पंचायत विभाग के अंतर्गत स्थानीय निकायों को 2135 करोड का अनुदान, सिंचाई परियोजनाओं के लिए 420 करोड़, मुख्यमंत्री कन्या विवाह सहायता के लिए 50 करोड़ नर्मदा घाटी विकास की सिंचाई योजनाओं के लिए 807 करोड़ का प्रावधान किया गया है।   मध्य प्रदेश विधानसभा में गुरुवार को सदन की कार्यवाही प्रश्नकाल से शुरू हुई। शून्यकाल में सदन में हरदा विस्फोट कांड पर कांग्रेस विधायकों द्वारा दिए गए स्थगन प्रस्ताव पर चर्चा हुई। इस दौरान जमकर हंगामा हुआ, जिसके बाद सदन की कार्यवाही थोड़ी देर के लिए स्थगित कर दी गई। दोबारा कार्यवाही शुरू होने पर विधानसभा में वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा ने द्वितीय अनुपूरक बजट पेश किया।   किस विभाग को कितना मिला - मध्यप्रदेश राज्य सरकार खनिज साधन विभाग अंतर्गत जिला माइनिंग फण्ड योजना के लिए 100 करोड़ का प्रावधान हैं। - वाणिज्यिक कर विभाग अंतर्गत म.प्र. परिवहन अधोसंरचना विकास निधि योजना के लिए 106 करोड़ और म.प्र. नगरीय परिवहन अधोसंरचना विकास निधि हेतु 47 करोड़ का प्रावधान हैं। - राज्य सरकार ने लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग अंतर्गत मुख्यमंत्री श्रमिक सेवा प्रसूति सहायता योजना हेतु 200 करोड़, आशा कार्यकर्ताओं को अतिरिक्त प्रोत्साहन योजना के लिये 220 करोड़ और मुख्यमंत्री एयर एंबुलेंस योजना के लिए 2.50 करोड़ का प्रावधान रखा है। - ऊर्जा विभाग के अंतर्गत आने वाली विद्युत वितरण कंपनियों को उदय योजना के तहत अंशपूंजी का प्रदाय योजना के लिए 13,365 करोड़, म.प्र. उपकर अधिनियम 1982 के अंतर्गत ऊर्जा विकास उपकर का ऊर्जा विकास निधि को 181 करोड़ का प्रावधान है, अटल गृह ज्योति योजना के लिए 579 करोड़ है। - 350 करोड़ का प्रावधान स्कूल शिक्षा विभाग अंतर्गत समग्र शिक्षा अभियान के लिये है। - मध्यप्रदेश सड़क विकास कार्यक्रम (ए.डी.बी.) के लिए 400 करोड़, लोक निर्माण विभाग अंतर्गत केंद्रीय सड़क निधि योजना के लिए 450 करोड़, भू-अर्जन हेतु मुआवजा के लिये 400 करोड़, वृहद पुलों का निर्माण 150 करोड़, ग्रामीण सड़कों एवं अन्य जिला मागों का निर्माण/उन्नयन योजना के लिए 525 करोड़, म.प्र. सड़क विकास निगम के माध्यम से सड़कों का निर्माण योजना के लिए 250 करोड़ और नवीन ग्रामीण एवं अन्य जिला मागों का निर्माण के लिए 200 करोड़ का प्रावधान है। - जनजातीय कार्य विभाग अंतर्गत पी. एम. जनमन बहुउद्देशीय केंद्र निर्माण योजना के लिए 26 करोड़ रुपये का प्रावधान है। - 15वें वित्त आयोग की अनुशंसा के अनुसार पंचायत विभाग अंतर्गत स्थानीय निकायों को अनुदान के लिए 2,135 करोड़ रुपये का प्रावधान दिया गया है। - मध्यप्रदेश जनसंपर्क विभाग अंतर्गत प्रिंट मीडिया 120 करोड़, इलेक्ट्रानिक मीडिया पर प्रचार के लिए 120 करोड़, विशेष अवसरों पर प्रचार के लिए 70 करोड़ तथा कार्यक्रम, आयोजन एवं प्रबंधन के लिए 14 करोड़ का प्रावधान किया गया है। - लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग अंतर्गत जल जीवन मिशन (जे जे एम) नेशनल रूरल ड्रिंकिंग वाटर मिशन योजना के लिए 2,616 करोड़ का प्रावधान। - सरकार ने सामाजिक न्याय एवं निःशक्तजन कल्याण विभाग अंतर्गत सामाजिक सुरक्षा और कल्याण के लिए 200 करोड़ और दीनदयाल अन्त्योदय मिशन को आर्थिक सहायता के लिए 50 करोड़ का प्रावधान। - नर्मदा घाटी विकास विभाग अंतर्गत विद्युत देयकों के भुगतान के लिए 62 करोड़, विभिन्न सिंचाई योजनाओं के क्रियान्वयन के लिए 807 करोड़ का प्रावधान। - जल संसाधन विभाग अंतर्गत विद्युत देयकों के भुगतान के लिए 50 करोड़, विभिन्न सिंचाई परियोजनाओं के क्रियान्वयन के लिए 420 करोड़ का प्रावधान। - खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग अंतर्गत खुली निविदा पद्धति से शक्कर क्रय पर राज्य शासन से अनुदान के लिए 150 करोड़ का प्रावधान है। - पशुपालन एवं डेयरी विभाग अंतर्गत गौ संवर्धन एवं पशुओं का संवर्धन योजना के लिए 30 करोड़ और मुख्यमंत्री पशुपालन विकास योजना के लिए 50 करोड़ का प्रावधान हैं। - महिला एवं बाल विकास विभाग अंतर्गत आंगनबाड़ी सेवायें (सक्षम आंगनवाड़ी और पोषण 2.0) के लिए 614 करोड़, मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना 2023 के लिए 1648 करोड़, लाड़ली लक्ष्मी योजना के लिए 760 करोड़, प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के लिए 176 करोड़ और समेकित बाल संरक्षण योजना (मिशन वात्सल्य) के लिए 70 करोड़, पोषण अभियान (एनएनएम) (सक्षम आंगनबाड़ी और पोषण 2.0) योजना के लिए 128 करोड़ का प्रावधान। - चिकित्सा शिक्षा विभाग अंतर्गत चिकित्सा महाविद्यालय, संबद्ध चिकित्सालय के लिए 119 करोड़, नवीन चिकित्सा महाविद्यालयों की स्थापना के लिए 362 करोड़, पी.एम.एस.एस.वाय. परि. अंतर्गत सुपरस्पेशल्टी अस्पताल की स्थापना के लिए 38 करोड़, रतलाम/दतिया/शिवपुरी एवं सतना चिकित्सा महाविद्यालय के लिए 56 करोड़ का प्रावधान। - ग्रामीण विकास विभाग अंतर्गत प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण हेतु 346 करोड़ और प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना अंतर्गत रसोइयों को मानदेय भुगतान की राज्य योजना के लिए 183 करोड़ का प्रावधान प्रस्तावित हैं। - पर्यटन विभाग अंतर्गत मुख्यमंत्री हेली पर्यटन सेवा नवीन योजना के लिये प्रावधान। - उच्च शिक्षा विभाग अंतर्गत प्रधानमंत्री कॉलेज आफ एक्सीलेन्स नवीन योजना हेतु प्रतीक प्रावधान।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  8 February 2024

bhopal, Friday

भोपाल। खगोलविज्ञान में रुचि रखने वालों के लिए माघ कृष्ण अमावस्या पर शुक्रवार, 09 फरवरी की शाम आसमान में रोमांचक घटना होने जा रही है। इस दौरान अमावस्या का चांद सुपर न्यू मून होगा। इस दौरान चंद्रमा पृथ्वी के सबसे करीब होगा, लेकिन वह दिखाई नहीं देगा। सुपर न्यूमून नाम आते ही हमारे मन में कल्पना होती है कि चंद्रमा अन्य दिनों के मुकाबले बड़ा और चमकदार दिखाई देगा, लेकिन अगर कहा जाए कि शुक्रवार को सुपर न्यू मून है और वह दिखेगा नहीं तो यह अनेक लोगों के लिए नई बात हो सकती है। यह बात नेशनल अवार्ड प्राप्त विज्ञान प्रसारक सारिका घारू ने गुरुवार को कही। सारिका ने विद्याविज्ञान कार्यक्रम में बताया कि शुक्रवार शाम आसमान में सुपर न्यूमून की घटना होने जा रही है। इसमें चंद्रमा पृथ्वी के पास आकर मात्र तीन लाख 58 हजार 304 किलोमीटर दूरी पर होगा, लेकिन अमावस्या की स्थिति होने के कारण यह दिनभर चमकदार सूर्य के साथ रहेगा इसलिए रात होने पर चंद्रमा पास होकर भी नहीं दिखेगा। चंद्रमा एक अंडाकार पथ पर पृथ्वी की परिक्रमा करता है, इसलिए चंद्र माह के दौरान पृथ्वी से इसकी दूरी बदलती रहती है। पृथ्वी के निकटतम बिंदु को पेरिजी कहा जाता है और सबसे दूर के बिंदु को अपोजी कहा जाता है। सारिका ने बताया कि किसी पूर्णिमा पर चंद्रमा पृथ्वी के सबसे करीब होता है तो इसे सुपर फुल मून कहा जाता है। यह माइक्रोमून की तुलना में 14 प्रतिशत बड़ा और 30 प्रतिशत चमकीला दिखता है, लेकिन किसी अमावस्या पर चंद्रमा जब पृथ्वी के निकटतम बिंदु के पास होता है तो इसे सुपर न्यू मून के रूप में जाना जाता है। शुक्रवार, 09 फरवरी को सुपर न्यू मून होने जा रहा है। यह खाली आंखों से दिखाई नहीं देता है। दिन के आकाश में चमकते सूर्य के साथ सहयात्री के रूप में चलते हुए आप काले सुपर न्यू मून को महसूस कीजिए और याद रखिए कि अमावस्या पर चंद्रमा रात में नहीं, दिन भर सूर्य के साथ रहता है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  8 February 2024

chindwara,Fire broke ,MPEB store

छिंदवाड़ा। छिंदवाड़ा से सटे चंदनगाँव स्थित एमपीईबी के एरिया स्टोर में गुरूवार अलसुबह अचानक आग लग गई थी। जिसकी सूचना मिलते ही तत्काल कलेक्टर मनोज पुष्प, अपर कलेक्टर केसी बोपचे, एसडीएम छिंदवाड़ा सुधीर जैन सहित जिला प्रशासन, पुलिस, नगर निगम और एमपीईबी की टीम मौके पर पहुंची और प्रशासनिक तत्परता से आग पर काबू पा लिया गया। स्टोर में एमपीईबी के ट्रांसफार्मर सहित फ्यूल और काफी सारा इलेक्ट्रॉनिक सामान रखा हुआ है। आस पास रिहाशयी इलाका है। प्रशासनिक तत्परता और सूझबूझ से समय पर आग नियंत्रित होने से एक बड़ा हादसा टला। कार्यपालन अभियंता एरिया स्टोर छिंदवाड़ा एमपीईबी एस.बी. सिंह ने बताया कि प्रातः के समय अचानक आग लगने का पता चलने पर तत्काल इसकी सूचना जिला प्रशासन के अधिकारियों को दी गई। जिसके बाद तत्काल मौके पर जिला प्रशासन, पुलिस और नगर निगम की टीम और एमपीईबी के अधीक्षण अभियंता श्री खुशियाल शिववंशी पहुंचे। उनके समन्वय से छिंदवाड़ा नगर निगम के साथ ही चौरई, परासिया और अमरवाड़ा आदि से 12 फायर ब्रिगेड बुलाकर आग को शीघ्र नियंत्रित किया जा सका।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  8 February 2024

anuppur, Uncontrolled truck, hits bike

अनूपपुर। रामनगर थाना क्षेत्र में बुधवार सुबह ट्रक बेकाबू ने बाइक को टक्कर मार दी, जिसमे सवार महिला की मौत हो गई और बाइक चालक गंभीर रूप से घायल हो गया। वहीं बाइक को टक्कर मारने के बाद ट्रक सड़क की रेलिंग तोड़ते हुए नीचे गड्ढे में जा गिरा, जिससे ट्रक चालक की मौत हो गई।   जानकारी के अनुसार रामनगर थाना क्षेत्र में झीरिया टोला गांव के पास कोतमा राष्ट्री य राजमार्ग पर सुबह करीब 3 बजे ट्रक क्रमांक एमपी65जीए1108 ने बेकाबू होकर दो पहिया वाहन क्र. सीजी10ईसी5716 को टक्कर मार दी। दो पहिया वाहन पर तीन लोग सवार थे, जिनमें से महिला मनती बाई भैना की ट्रक के नीचे आ जाने से मौत हो गई वहीं बाइक चालक सोनसाय भैना और कुंती बाई भैंना घायल हो गए। टक्कर मारने के बाद ट्रक सड़क की रेलिंग तोड़ते हुए नीचे खाई में जा गिरा। जिससे ट्रक चालक केबिन में फंस गया। इसके बाद राहगीरों की मदद से पुलिस ने चालक को लगभग 3 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद केबिन काटकर बाहर निकाला। घायलों को बिजुरी अस्पताल ले जाया गया, जहां उपचार के दौरान ट्रक चालक की भी मौत हो गई। रामनगर पुलिस ने बताया कि ट्रक चालक की शिनाख्त नहीं हो पाई है। मामले की जांच की जा रही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 February 2024

rajgarh,9 passengers .bus overturns

राजगढ़। सारंगपुर थाना क्षेत्र में बुधवार दोपहर आगर रोड़ पर गैस गोडाउन के समीप तेज रफ्तार बालाजी बस अनियंत्रित होकर पलट गई, हादसे में 7 महिला सहित 9 लोग घायल हो गए। सूचना पर पहुंचे एम्बूलेंस वाहन की मदद से घायलों को सारंगपुर सिविल अस्पताल पहुंचाया गया, जहां उनका उपचार किया जा रहा है, पुलिस ने मामले में जांच शुरू कर दी है। पुलिस के अनुसार सारंगपुर-आगर रोड़ पर गैस गोडाउन के समीप तेज रफ्तार बालाजी बस क्रमांक एमपी 41 पी 1559 अनियंत्रित होकर पलट गई। हादसे में बस में सवार पर्वतसिंह (53)पुत्र नानूराम हरिजन निवासी मंडोदा, राजनसिंह (55)पुत्र रामचंद्र योगी निवासी मोहना, आशाबाई (43)पत्नी देवकरण चंद्रवंशी निवासी करजूमोहना, नेहा पुत्री दिनेश चंद्रवंशी, मायाबाई (40)पत्नी राजेन्द्र कलगोदिया निवासी बड़ोदी, शीतल पुत्री मोहनलाल कारपेंटर निवासी मोहना, खुशी (18)पुत्री राजेश कलगोदिया निवासी बड़ोदी, ज्योति (28)पत्नी प्रवीण खाती और रचना (35)पत्नी सतीश खाती निवासी करजू घायल हो गई, जिन्हें एम्बूलेंस की मदद से सिविल अस्पताल पहुंचाया गया,जहां उनका उपचार किया जा रहा है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मामले में जांच शुरु की।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 February 2024

jabalpur, Nurse shot , beach road

जबलपुर। ओमती थाना अंतर्गत रसल चौक के सिद्धार्थ होटल के पास बुधवार को बीच रोड पर एक युवक ने हत्या करने के उद्देश्य से एक नर्स को गोली मार दी! अचानक हुए इस हमले से अपना-तफरी मच गई। लोगों ने पुलिस को सूचना दी एवं घायल नर्स को जबलपुर अस्पताल पहुंचाया। अस्पताल में भर्ती युवती की हालत बेहद नाजुक बताई जा रही है। डॉक्टरों द्वारा युवती का उपचार किया जा रहा है। सूचना पर पहुंची ओमती पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपित से पुलिस पूछताछ कर रही है। घायल युवती फिलहाल कुछ बोलने की स्थिति में नहीं है। गोलीकांड की सूचना मिलते ही पुलिस के अधिकारी अस्पताल पहुंचे। पुलिस के अनुसार युवती कटनी निवासी बताई जा रही है जो की एक निजी अस्पताल में नर्स के रूप में कार्य करती थी। वहीं आरोपित भी कटनी का बताया जा रहा है नर्स और आरोपित में पहले से दोस्ती थी। आरोपित संदीप पुत्र चंद्रिका सोनी (निवासी कटनी) नामक लड़के ने गोली मारी है। युवती नाइट ड्यूटी के बाद बुधवार सुबह अस्पताल से पैदल इनकम टैक्स चौराहा स्थित अपने क्वार्टर जा रही थी। उधर पहले से घात लगाए बैठे युवक ने गोली से दनादन 2 फायर कर दिए।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 February 2024

bhopal, Budget session ,MP Assembly

भोपाल। मध्य प्रदेश विधानसभा का बजट सत्र बुधवार को राज्यपाल मंगुभाई पटेल के अभिभाषण से शुरू हुआ। राज्यपाल के अभिभाषण के बाद कांग्रेस सदस्यों के हंगामा करने पर विधानसभा अध्यक्ष नरेन्द्र सिंह तोमर ने सदन की कार्यवाही गुरुवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी। राज्यपाल मंगुभाई पटेल बुधवार सुबह 11 बजे विधानसभा पहुंचे। सदन में मुख्यमंत्री मोहन यादव, संसदीय कार्यमंत्री कैलाश विजयवर्गीय और नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार ने उनकी अगवानी की। इसके बाद राज्यपाल पटेल का अभिभाषण शुरू हुआ। उन्होंने प्रदेश सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि आजादी के अमृतकाल का साक्षी बनने का अवसर हमें मिला है। अयोध्या में भगवान राम की प्राण-प्रतिष्ठा ने पूरे देश को भक्तिमय माहौल में सराबोर कर दिया। उन्होंने कहा कि चित्रकूट और ओरछा में राम वन गमन पथ के लिए सरकार ने प्रतिबद्ध होकर काम शुरू कर दिया है।   राज्यपाल ने कहा कि विकसित भारत संकल्प यात्रा में 50 लाख से अधिक लोगों को लाभान्वित किया गया है। जहां-जहां मध्य प्रदेश में श्रीराम और श्रीकृष्ण के कदम पड़े हैं, उन स्थानों को तीर्थ के रूप में विकसित किया जाएगा। 724 किलोमीटर लंबी 10000 रुपये से अधिक की सड़क परियोजनाओं की सौगात मिली है। केन-बेतवा, पार्वती- कालीसिध-चंबल लिंक परियोजना प्रदेश विकास में मील का पत्थर साबित होगी। राज्यपाल ने कहा कि पीएम जनमन योजना अंतर्गत विशेष पिछड़ी जनजातीय के हित में विभिन्न काम शुरू करने का निर्णय लिया है। 23 जिलों में बैगा सहरिया एवं भारिया जनजाति के 11 लाख से अधिक भाई बहन लाभान्वित होंगे। उन्होंने कहा कि तीर्थस्थलों के लिए हेलिकॉप्टर सेवा आरंभ की जाएगी।   राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान कांग्रेस सदस्यों ने भाजपा के संकल्प पत्र की प्रतियां सदन में लहराई और नारेबाजी शुरू कर दी। कांग्रेस सदस्यों ने सरकार पर जनता से धोखेबाजी का आरोप लगाया और सदन से बहिर्गमन कर गए। नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार ने कहा कि राज्यपाल से अभिभाषण में झूठ बुलवाया गया। सिंघार ने कहा कि अभिभाषण में न तो धान की खरीदी 3100 रुपये प्रति क्विंटल करने का उल्लेख है न ही गेहूं का मूल्य 2700 रुपये देने की बात है। 450 रुपये में रसोई गैस सिलेंडर देने का भी उल्लेख नहीं है। जरूरत पड़ी तो कांग्रेस सड़कों पर उतरेगी।   वहीं, कांग्रेस विधायक विक्रांत भूरिया ने कहा कि हम झूठ सुनने नहीं आए हैं। युवा, महिलाओं और बच्चों से किये वादे के बारे में कोई बात नहीं की गई है। सदन में हंगामा होने के बाद विधानसभा अध्यक्ष नरेन्द्र सिंह तोमर ने सदन की कार्यवाही गुरुवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी।     बुधवार से शुरू हुआ मध्य प्रदेश विधानसभा का बजट सत्र 19 फरवरी तक चलेगा। इस सत्र में कुल नौ बैठकें होंगी। इस सत्र में 2303 प्रश्न भेजे गए हैं। इनमें 1163 तारांकित हैं। चार स्थगन, 259 ध्यानाकर्षण और 12 अशासकीय संकल्प आएंगे। यह प्रदेश की 16वीं विधानसभा का दूसरा सत्र है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 February 2024

Harda, Work to remove , all night

हरदा। पटाखा फैक्ट्री में मंगलवार को हुए विस्फोट की घटना में अब तक 11 लोगों की मौत हो चुकी है, वहीं, 200 से अधिक घायल हुए हैं, जिन्हें विभिन्न अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। पटाखा फैक्ट्री परिसर में रात में भी पटाखे फूटते रहे और इसके साथ ही मलबा भी हटाया जाता रहा। बुधवार सुबह से मलबा हटाने का काम दोबारा शुरू किया गया है। इधर, प्रशासन ने मंगलवार को जिन घरों को खाली करा लिया था, उन घरों में रहने वाले बुधवार सुबह खंडहर बन चुके अपने घरों को देखने पहुंचे। विस्फोट से ध्वस्त हुए पटाखा फैक्ट्री परिसर से मलबा हटाने का काम रात भर चलता रहा। जिस बेसमेंट में बारूद रखा था और मजदूर काम कर रहे थे, उसका मलबा हटाया जा रहा है। इसके लिए वाराणसी से नेशनल डिजास्टर रिस्पांस फोर्स की 35 सदस्यों की टीम हरदा पहुंच गई है। बुधवार सुबह कई लोग अपने घर देखने पहुंचे, वहां मलबा मिला। मंगलवार देर रात तक 204 घायलों को विभिन्न अस्पतालों में पहुंचाया जा चुका था। 51 गंभीर घायलों को भोपाल, इंदौर और नर्मदापुरम रेफर किया गया है, वहीं कई लोग अब भी लापता हैं। एनडीआरएफ मलबे में दबे लोगों को निकालने में जुटी है। हालात का जायजा लेने मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव बुधवार को हरदा जाएंगे।   हादसे में फैक्ट्री के आसपास बने 60 घर जल गए हैं। एहतियातन 100 से ज्यादा इमारतों को खाली करा लिया गया था। बुधवार सुबह लोग मलबे का ढेर बन चुके अपने घरों में जरूरत की चीजें खोजते दिखे। इस मामले में हरदा की सिविल लाइन पुलिस ने केस दर्ज किया है। वहीं, फैक्ट्री मालिक राजेश अग्रवाल, सोमेश अग्रवाल को पुलिस ने रात करीब 9 बजे राजगढ़ जिले के सारंगपुर से गिरफ्तार कर लिया है। सुपरवाइजर रफीक खान भी पुलिस की हिरासत में है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 February 2024

bhopal, Congress , Harda incident

भोपाल। हरदा में फटाका फैक्ट्री में हुई विस्फोटक घटना की वस्तुस्थिति की जांच के लिए मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष जीतू पटवारी के निर्देश पर प्रदेश कांग्रेस द्वारा एक जांच समिति बनायी गई है। प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष एवं संगठन प्रभारी राजीव सिंह ने बताया कि जीतू पटवारी के निर्देश पर घटना की जांच हेतु पूर्व मंत्री पी.सी. शर्मा और मप्र कांग्रेस कमेटी आदिवासी विभाग के अध्यक्ष रामू टेकाम को समिति का सदस्य बनाया गया है। समिति के दोनों सदस्य घटना की जांच हेतु हरदा रवाना हो चुके हैं जो घटना स्थल पर पहुंचकर वस्तुस्थिति की जांच कर प्रतिवेदन प्रदेश कांग्रेस कमेटी को सौंपेंगे। हरदा जिले के कांग्रेस विधायक आर.के. दोगने सहित हरदा जिला कांग्रेस कमेटी के स्थानीय कांग्रेसजन भी घटना स्थल पर पहुंचकर समिति के सदस्यों का सहयोग करें।   प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी ने घटना को गंभीरता से लेते हुए घटना में घायलों को उचित सहायता करने हेतु जिला कांग्रेस कमेटियों को निर्देशित किया है कि वे घटना में घायल व्यक्ति के लिए समुचित सहायता करें और अस्पतालों में उन्हें इलाज हेतु भर्ती कराये। साथ ही जो भी आर्थिक सहायता मुहैया करा सकें तत्काल प्रभाव से उपलब्ध कराये। घायलों को किसी प्रकार से कोई परेशानी का सामना न करना पड़े यह जिम्मेदारी हम सभी कांग्रेसजनों की है। इस जिम्मेदारी का दायित्व पूरी निष्ठा और सक्रियता के साथ निभाते हुये विपक्ष की भूमिका का निर्वहन करें।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 February 2024

harda, Explosion firecracker factory, 11 people died

हरदा। मध्य प्रदेश के हरदा जिले में मंगलवार को एक अवैध पटाखा फैक्टरी में विस्फोट के बाद आग लग गई। फैक्टरी में आतिशबाजी के इस्तेमाल के लिए रखे गए बारूद के संपर्क में आकर आग ने देखते ही देखते विकराल रूप धारण कर लिया। इससे पूरा इलाका दहल गया। हादसे में अबतक 11 लोगों की मौत हो गई है। जबकि 60 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं, जिन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया है। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने उच्च स्तरीय बैठक बुलाई है। उन्होंने घटना की जांच के आदेश दिए हैं। साथ ही जांच के लिए छह सदस्यीय समिति का गठन भी कर दिया है।     जानकारी के अनुसार, शहर में मगरधा रोड पर ग्राम बैरागढ़ में स्थित एक अवैध पटाखा फैक्टरी में मंगलवार को जोरदार धमाके के बाद भीषण आग लग गई। आग तेजी से फैली और आसपास के 50 से ज्यादा घरों को अपनी चपेट में ले लिया। इसकी वजह से क्षेत्र में अफरातफरी का माहौल हो गया और लोग इधर-उधर भागते नजर आए। फैक्टरी से उठती आग की लपटें और धुएं का गुबार कई किलोमीटर दूर से देखा जा सकता है। बताया जाता है कि विस्फोट के वक्त फैक्टरी परिसर में 250 से ज्यादा मजदूर काम कर रहे थे। हादसे में 11 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 60 से ज्यादा लोग घायल हो गए हैं। मौके पर यहां-वहां शव पड़े देखे जा रहे हैं। फायर ब्रिगेड की गाड़ियां मौके पर पहुंची और राहत एवं बचाव कार्य शुरू किया। घायलों को एंबुलेंस के जरिए अस्पताल भेजा जा रहा है। बताया जाता है कि 100 से अधिक लोग अभी भी इस फैक्टरी परिसर के भीतर फंसे हुए हैं। फैक्टरी में रह-रहकर अभी भी धमाकों की आवाज सुनाई दे रही है। हमीदिया में डॉक्टरों को हाई अलर्ट पर रखा गया। घायलों को भोपाल और इंदौर भी भेजा जाएगा। हरदा से भोपाल तक ग्रीन कॉरिडोर बनाया जाएगा।     हरदा में पटाखा फैक्टरी में हुए हादसे को लेकर बैतूल जिले से चार एंबुलेंस और चिकित्सकों की टीम रवाना की गई है। बैतूल कलेक्टर के निर्देश पर सीएमएचओ रविकांत उईके ने चार चिकित्सकों की टीम, दवाइयों के साथ भेज दी है। सीएमएचओ ने बताया कि चार 108 एंबुलेंस भी भेजी गई है और हरदा जिले के स्वास्थ्य अधिकारियों से लगातार संपर्क किया जा रहा है।     इधर, नर्मदापुरम कलेक्टर सोनिया मीना के निर्देश पर अमला मुस्तैद है। नर्मदापुरम के डॉक्टरों की टीम ने संभाला मोर्चा। स्वास्थ्य विभाग, पुलिस, प्रशासन की टीम जुटी मदद में। नर्मदापुरम कलेक्टर के निर्देश पर दो एंबुलेंस और एक दमकल वाहन और हरदा के लिए भेजा गया है। जिले की मेडिकल टीम हरदा पहुंच गई है और वहां राहत एवं उपचार कार्य जारी है।     बैरिकेडिंग कर लोगों की आवाजाही रोकी   मगरधा रोड सहित पटाखा फैक्टरी के करीब एक किलोमीटर के दायरे में आवागमन प्रतिबंधित कर दिया गया है। नर्मदा पुरम- खंडवा स्टेट हाईवे पर भी बैरिकेड्स लगाकर वाहनों को निकाला जा रहा है। जानकारी मिलने के बाद पूर्व मंत्री कमल पटेल ने अस्पताल पहुंच कर घायलों के हालचाल जाने और परिजनों को मदद का आश्वासन दिया। घायलों की मदद के लिए कई लोग खुद रक्तदान करने जिला अस्पताल पहुंच रहे हैं।     मुख्यमंत्री ने बुलाई बैठक   हरदा में हुए भीषण हादसे को लेकर मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने मंगलवार को दोपहर में आपात बैठक बुलाई। उन्होंने मंत्री प्रद्युम्न तोमर व उदय प्रताप सिंह, एसीएस अजीत केसरी, डीजी होम गार्ड अरविंद कुमार को तत्काल हरदा जाने के निर्देश दिए। इसके अलावा भोपाल, इंदौर में मेडिकल कालेज और एम्स भोपाल में बर्न यूनिट को आवश्यक तैयारी करने को कहा। इंदौर, भोपाल से फायर ब्रिगेड की दमकलों को भी हरदा भेजा जा रहा है। इसके साथ-साथ राहत कार्यों के लिए वरिष्ठ अधिकारियों को निर्देश जारी किए। मुख्यमंत्री ने कहा कि, घायलों का बेहतर से बेहतर उपचार हमारी पहली प्राथमिकता है। मृतकों और घायलों को आर्थिक सहायता उपलब्ध कराई जाएगी। मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख रुपये और घायलों को 50-50 हजार रुपये सहायता देने की बात कही गई है। जांच समिति गठित घटना की जांच के लिए स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव मोहम्मद सुलेमान की अध्यक्षता में एक समिति का गठन कर दिया है। इसमें धार्मिक न्यास विभाग के अपर मुख्य सचिव अजीत केसरी, गृह विभाग के प्रमुख सचिव संजय दुबे, नगरीय विकास एवं आवास विभाग के प्रमुख सचिव नीरज मंडलोई, होमगार्ड महानिदेशक अरविंद कुमार और अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक आलोक रंजन को सदस्य नियुक्त किया गया है। यह समिति अपनी जांच रिपोर्ट मुख्यमंत्री को सौंपेगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 February 2024

chindwara, Kamal Nath ,joining BJP

छिंदवाड़ा। मप्र के पूर्व मुख्यमंत्री और काँग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष, छिंदवाड़ा विधायक कमलनाथ ने बीजेपी में जाने की अटकलों पर मंगलवार को विराम लगा दिया, उन्होंने छिंदवाड़ा हवाई पट्टी पर पत्रकारों से चर्चा में कहा कि कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव के लिए अपनी तैयारी शुरू कर दी है। तरह-तरह की अफवाह उड़ी, लेकिन अब शुरुआत हो गई है। श्रीनाथ ने कहा कि जैसे ही यह एआईसीसी प्रत्याशियों के नाम की घोषणा करती है वैसे ही नकुलनाथ यहां से लोकसभा के उम्मीदवार होंगे। कमलनाथ ने उनके भाजपा में जाने वाली सारी बातों को अफवाह करार दिया।   उन्होंने कहा कि मैंने तो प्रमोद कृष्णन को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में कहा था कि कोई किसी से बंधा हुआ नहीं है, उसके बाद ये अफवाह फैला दी गई। वहीं कांग्रेस प्रवक्ता के द्वारा दिए गए बयान को लेकर कमलनाथ ने कहा कि जितेंद्र ने उसे शोकाज नोटिस दिया, उससे स्पष्टीकरण मांगा है। कमलनाथ ने अध्यक्ष पद से हटाए जाने के सवाल के जवाब देते हुए कहा कि मैंने अपना इस्तीफा दे दिया था। मैंने उसे इस्तीफा को आउट नहीं किया मुझसे पूछा गया कि किसे अध्यक्ष बनाना है मैंने बता दिया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 February 2024

bhopal, Council of Ministers,Chief Minister Dr. Yadav

भोपाल। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव की अध्यक्षता में मंगलवार को मंत्रि-परिषद की बैठक मंत्रालय में हुई। मंत्रि-परिषद द्वारा कृषि उत्पादकता को बढ़ावा देने के लिए वर्ष 2023-24 में शून्य प्रतिशत ब्याज दर पर कृषकों को अल्पावधि फसल ऋण दिये जाने की योजना को निरन्तर रखने की स्वीकृति दी हैं। सहकारी बैंकों के माध्यम से कृषकों को फसल ऋण प्रदान किया जायेगा।   इस योजना में खरीफ 2023 सीजन की ड्यूडेट 28 मार्च, 2024 तथा रबी 2023-24 सीजन की ड्यूडेट 15 जून 2024 रखी गयी है। राज्य शासन ने योजना के अन्तर्गत फसल ऋण लेने वाले सभी किसानों को 1.5 प्रतिशत (सामान्य) ब्याज अनुदान तथा खरीफ एवं रबी सीजन की निर्धारित ड्यूडेट तक ऋण की अदायगी करने वाले किसानों को 4 प्रतिशत प्रोत्साहन स्वरूप (अतिरिक्त ब्याज अनुदान) दिया जायेगा। उल्लेखनीय है कि मध्यप्रदेश संकल्प पत्र 2023 में कृषि उत्पादकता को बढ़ावा देने के लिए किसानों को शून्य प्रतिशत ब्याज पर फसल ऋण प्रदाय करने का राज्य सरकार का संकल्प है।   प्रदेश में जिला स्तर पर चाइल्ड हेल्प लाइन के संचालन की स्वीकृति मंत्रि-परिषद द्वारा मिशन वात्सल्य में चाइल्ड हेल्प लाइन के सुचारू और कुशल संचालन के लिए विभागीय आदेश में संशोधन की स्वीकृति दी गयी। संशोधन के अनुसार जिला स्तर पर जिला बाल संरक्षण इकाई द्वारा एक हेल्पलाईन यूनिट का संचालन किया जायेगा। इस कार्य के लिए मानव संसाधन का चयन भारत सरकार द्वारा निर्धारित अर्हता अनुसार विज्ञापन जारी कर पारदर्शी प्रक्रिया से किया जायेगा। चाइल्ड हेल्प लाइन के सभी स्टाफ संविदा पर रखे जाऐंगे।   मध्यप्रदेश विश्वविद्यालय (संशोधन) विधेयक का अनुमोदन मंत्रि-परिषद द्वारा मध्यप्रदेश विश्वविद्यालय (संशोधन) विधेयक, 2024 के माध्यम से मध्यप्रदेश विश्वविद्यालय अधिनियम, 1973 में संशोधन प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया। विधेयक को आगामी विधानसभा सत्र में पुन:स्थापित और पारित कराने संबंधी कार्यवाही के लिए उच्च शिक्षा विभाग को अधिकृत किया गया। विधेयक में संशोधन अनुसार विश्वविद्यालयों में कुलपति पदनाम को कुलगुरू किये जाने पर अनुमोदन दिया गया हैं।   अन्य निर्णय मंत्रि-परिषद द्वारा प्रदेश की मदिरा दुकानों के निष्पादन, देशी/विदेशी मदिरा प्रदाय व्यवस्था, भांग, भांगघोटा की फुटकर बिक्री की दुकानों के निष्पादन एवं अन्य के संबंध में वित्तीय वर्ष 2024-25 के लिए आबकारी नीति का अनुमोदन किया गया। मदिरा दुकानों के वर्ष 2023-24 के वार्षिक मूल्य में 15% की वृद्धि करने का निर्णय लिया गया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 February 2024

anuppur, Uma Bharti ,Amarkantak

अनूपपुर। मध्यप्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा की वरिष्ठ नेता उमा भारती दो दिवसीय अमरकंटक के प्रवास पर मंगलवार को मां नर्मदा मंदिर पहुंचकर पूजा अर्चना की और मंदिर परिसर में स्थित अन्य मंदिरों के दर्शन किए। इस दौरान उन्होंने अमरकंटक और नर्मदा को लेकर कहा कि कहा कि नर्मदा जी का काम संपूर्णता के साथ जैसा होना चाहिए, वैसा नहीं हो पाता है। क्योंकि, इसमें विभिन्न जिले और राज्य भी शामिल हो जाते है। इसलिए कठिनाई आती है। जब तक सभी एक साथ मिलकर कलेक्टिव डिसीजन नहीं लेंगे तब तक यहां का विकास सम्भव नही है। इसके लिए एक कोऑर्डिनेटर बनाने की जरूरत है।   ज्ञात हो कि सोमवार की शाम पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती अमरकंटक में रात 9 बजे नर्मदा मंदिर पहुंच मॉ नर्मदा मंदिर में दर्शन पश्चात आरती कर माथा टेका। मंदिर प्रांगण में कुछ समय बैठ कर व्यतीत की। नर्मदा मंदिर पुजारी परिवार ने भी कुछ अपनी समस्याओं को भी उनके सामने रख सुलझाने की बाते रखी।   पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने मंगलवार को कल्याण सेवा आश्रम द्वारा नर्मदा मंदिर में मॉ नर्मदा और माता पार्वती हेतु भेंट किये गये स्वरर्ण अभूषण द्वारा किये गये श्रृंगार को निहारा और पूजन किया। प्रांगण में कुछ देर बैठ लोगो से बातचीत किया।   पत्रकारो के सवालो के जबाब में पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने दिग्विजय सिंह के ईडी, सीबीआई वाले बयान को लेकर कहा कि हम उनको कोई जवाब नहीं देते, पहले वो अपने बयान पर टिके रहे। देश में जहां भी उनकी सरकार हैं, वह कहें कि ईडी सीबीआई और ईवीएम की वजह से उनकी सरकार बनी है। राहुल गांधी की भारत जोड़ों यात्रा पर तंज कसते हुए कहा कि राहुल गांधी जोड़ना क्या चाहते हैं। अगर जोड़ना ही हैं, तो जो पाकिस्तान के कब्जे में हमारा जो कश्मीर टूटा है, वहां जाए, वहां यात्रा करें। वह तो अपनी पार्टी को भी नही बचा पा रहे हैं, जब कुछ टूटा ही नही हैं, तो फिर जोड़ना क्या है।   पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि जिस दिन रामलाल की प्राण प्रतिष्ठा हुई, उस दिन पूरा भारत जुड़ गया। इंडिया गठबंधन को लेकर उमा भारती ने कहा कि विपक्ष को उसी धरातल पर खड़ा होना पड़ेगा, जहां मोदी और भाजपा खड़ी है। तीन धरातल पर मोदी का व्यक्तित्व बना है, जब तक मोदी जैसा व्यक्ति दस बीस साल में खड़ा नही होता, कोई भी मोदी से आंख नहीं मिला पाएगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 February 2024

indore, child beggar, free city

इंदौर। सभी विभागीय अधिकारी फील्ड में पहुँचकर विभागीय योजनाओं और कार्यक्रमों के क्रियान्वयन की मैदानी हकीकत पता करेंगे। इंदौर शहर को अगले 15 दिनों में बाल भिक्षुक मुक्त शहर बनाया जाएगा। इस सम्बन्ध में कार्यवाही के लिए महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा दल गठित किए गए हैं। रेस्क्यू किए गए बच्चों को शिक्षा से भी जोड़ा जाएगा। शासकीय भूमि पर अतिक्रमण करने वालों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही की जाएगी। रेरा संबंधी बकाया राशि वसूल करने के लिए संपत्ति कुर्क कर उसकी नीलामी की जाएगी।     यह जानकारी सोमवार को यहां कलेक्टर आशीष सिंह की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई समय सीमा (टीएल) प्रकरणों की समीक्षा बैठक में दी गई। बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी सिद्धार्थ जैन, अपर कलेक्टर गौरव बेनल, सपना लौवंशी, रोशन राय तथा निशा डामोर सहित अन्य संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद थे। बैठक में कलेक्टर आशीष सिंह ने सीएम हेल्पलाईन के तहत दर्ज प्रकरणों के निराकरण की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने निर्देश दिए कि सभी अधिकारी दर्ज प्रकरणों का समय सीमा में निराकरण सुनिश्चित करें। प्रकरणों के निराकरण में किसी भी तरह की लापरवाही तथा उदासीनता नहीं बरती जाए। लापरवाही तथा उदासीनता बरतने वालों के विरूद्ध कार्यवाही की जाएगी।     बैठक में कलेक्टर सिंह ने निर्देश दिए कि रेरा संबंधी बकाया राशि वसूल करने के लिए संबंधितों की संपत्ति कुर्क की जाए। बकायादारों को नोटिस जारी करें। नोटिस के अनुसार समय सीमा में राशि जमा नहीं करने पर संबंधितों की संपत्ति कुर्क कर नीलामी की कार्यवाही की जाए। उन्होंने निर्देश दिए कि शासकीय जमीन पर अतिक्रमण करने वालों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जाए। सभी राजस्व अधिकारी अपने-अपने क्षेत्रों का भ्रमण कर यह सुनिश्चित करें कि किसी भी शासकीय जमीन पर अतिक्रमण नहीं हो पाये। उन्होंने राजस्व अधिकारियों का निर्देश दिए कि राजस्व महाअभियान का प्रभावी क्रियान्वयन किया जाए। अधिकारी अपने अधिनस्थ अधिकारियों के कार्यो की प्रगति की प्रतिदिन मॉनीटरिंग करें। हर सप्ताह टीएल की बैठक में इस अभियान की प्रगति की समीक्षा की जाएगी। उन्होंने कहा कि राजस्व प्रकरणों का समय सीमा में निराकरण किया जाए।     बैठक में कलेक्टर ने निर्देश दिए कि सभी अधिकारी फील्ड का लगातार भ्रमण करें। भ्रमण के दौरान वे विकास कार्यों, विभागीय योजनाओं और कार्यक्रमों के क्रियान्वयन की प्रगति की मैदानी हकीकत पता कर मौके पर समीक्षा करें। भ्रमण का प्रतिवेदन हर सप्ताह टीएल की बैठक में प्रस्तुत करें। निरीक्षण प्रतिवेदन प्रस्तुत नहीं करने पर संबंधित अधिकारियों के विरूद्ध कार्यवाही की जाएगी।     कलेक्टर आशीष सिंह ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि अगले 15 दिनों में शहर को बाल भिक्षुक मुक्त शहर बनाया जाए। इस अवसर पर महिला एवं बाल विकास विभाग के कार्यक्रम अधिकारी रामनिवास बुधोलिया ने बताया कि शहर में प्रमुख रूप से 27 चौराहों और 7 बड़े मंदिरों में बाल भिक्षावृत्ति दिखाई देती हैं। इन जगहों पर कार्यवाही के लिए दल बनाए गए हैं। इन दलों द्वारा आवश्यक कार्यवाही की जाएगी। कलेक्टर ने निर्देश दिए कि भिक्षावृत्ति से मुक्त कराए गए बच्चों के शिक्षण की व्यवस्था भी की जाए। आवश्यक होने पर बच्चों को हॉस्टल में भी रखा जाए। उन्होंने इन्दौर में आगामी 20 फरवरी को आयोजित होने वाले दिव्यांग रोजगार मेले की तैयारियों की भी समीक्षा की।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 February 2024

ratlam, 17 year old boy , attack

रतलाम। सोमवार सुबह अचानक कला विज्ञान महाविद्यालय के खेल मैदान पर 17 वर्षीय आशुतोष पिता राधेश्याम कुमावत दौड़ लगाते समय अचानक गिर गया। उसे गिरता देख खेल मैदान पर दौड़ लगा रहे अन्य युवक आशुतोष की ओर दौड़े और उसे उसी स्थिति में अस्पताल ले गए जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना मिलने पर बालाजी नगर निवासी आशुतोष के परिजन अस्पताल पहुंचे तब तक उसे चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया था। परिजों ने उसका पोस्टमार्टम नहीं होने दिया इससे यह ज्ञात नहीं हो पाया कि उसकी मौत किस कारण से हुई। लेकिन बताया जा रहा है कि उसकी मौत हार्ट अटेक के कारण हुई। वर्तमान में हर आयु के व्यक्तियों को अटेक की खबरों ने लोगों को घबरा दिया है। लोग खैल मैदान पर सेहत बनाने के लिए जाते है, लेकिन 17 वर्षीय बालक की अटेक की खबर ने भी लोगों को चौका दिया है। आजकल खैल मैदानों पर भी अटैक की खबरे बहुत आ रही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 February 2024

damoh, Damoh incident, Chief Minister

भोपाल। दमोह जिले में हुए सांप्रदायिक तनाव के मामले में मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने सोमवार को मामले की मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिए हैं। अपर कलेक्टर मीना मसराम, अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी दमोह को मजिस्ट्रियल जांच अधिकारी नियुक्त किया गया है।     मुख्यमंत्री ने उन्होंने सोमवार को सोशल मीडिया प्लेटफार्म एक्स के माध्यम से कहा है कि मध्यप्रदेश में शांति और सौहार्द बनाए रखना सरकार की विशेष प्राथमिकता है। दमोह में कतिपय असामाजिक तत्वों ने कानून और व्यवस्था को बिगाड़ने का प्रयास किया, जिसे पुलिस प्रशासन ने बखूबी संभाल लिया। घटना की जांच के निर्देश दिए गए हैं। दोषियों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी।     उल्लेखनीय है कि दमोह के दमयंती नगर क्षेत्र में 03 फरवरी की रात लगभग 10 बजे बड़ी संख्या में असामाजिक तत्वों ने कोतवाली थाने का घेराव कर अनर्गल नारेबाजी की तथा कानून एवं शांति व्यवस्था भंग करने का प्रयास किया। दमोह कलेक्टर मयंक अग्रवाल ने घटना के कारणों की मजिस्ट्रियल जाँच के आदेश दे दिये हैं।     यह है विवाद नगर पुलिस अधीक्षक अभिषेक तिवारी ने बताया कि लालू शर्मा ने अंसार टेलर्स की दुकान में कपड़े सिलवाने के लिए डाले थे। कपड़े समय पर नहीं सिलने पर लालू ने शनिवार रात करीब 9.30 बजे अंसार टेलर्स की दुकान पर जाकर गाली-गलौज कर दी। उसके साथ गए राजू ठाकुर, विक्की शर्मा सहित एक अन्य युवकों ने अंसार खान के साथ मारपीट कर दी। इसी दौरान मौलाना हाफिज रिजवान जिला जेल के पास स्थित मस्जिद से घर जा रहे थे। मस्जिद की मार्केट में अंसार टेलर्स की दुकान में झगड़ा करते लोगों को देखा तो मौलाना उन्हें समझाने के लिए पहुंच गए। इस दौरान झगड़ा कर रहे चारों लोगों ने मौलाना के साथ झूमाझटकी की और उनकी गाड़ी में भी तोड़फोड़ कर दी। इसके बाद टेलर और दूसरे पक्ष के लोग कोतवाली पुलिस थाने पहुंच गए और शिकायत दर्ज कराई। जैसे ही लोगों को इसकी जानकारी लगी तो हजारों की संख्या में लोग कोतवाली पहुंच गए और आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर घेराव करने लगे।     भारी भीड़ के बीच व्यवस्था बिगड़ गई। काफी संख्या में पुलिस फोर्स मौके पर पहुंचे। रात 11 बजे तक थाने में गहमा-गहमी का माहौल रहा। इस मामले में पुलिस ने चार लोगों के खिलाफ 294, 323, 506 और 427 धारा के तहत मामला दर्ज किया है। एक आरोपित को गिरफ्तार भी कर लिया है। मामला बिगड़ता देख एएसपी संदीप मिश्रा, तहसीलदार, एसडीएम आरएल बागरी के साथ पुलिस फोर्स पैदल ही सड़कों पर उतरा और पूरी रात शहर में गश्त की गई। एसपी सुनील तिवारी ने बताया कि शनिवार रात कुछ प्रदर्शनकारी कोतवाली पहुंचे थे, जिन्हें समझाइश देकर जाने के लिए कहा गया था, लेकिन उनके द्वारा हंगामा किया गया था और सामाजिक सौहार्द्र बिगड़ने का प्रयास किया गया था। जिन्हें बलपूर्वक हटाया गया। ऐसे करीब 40 लोगों पर धारा 153 ए,141,147 के तहत मामला दर्ज कर उनकी पहचान की जा रही है। इसके बाद इनकी संख्या बढ़ भी सकती है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 February 2024

chattarpur, Three died , tractor-trolley overturned

छतरपुर। जिले के किशनगढ़ थाना क्षेत्र में सोमवार को एक तेज रफ्तार ट्रैक्टर-ट्राॅली पलटने से तीन लोगों की मौत हो गई। हादसे में 32 लोग घायल हुए हैं, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घायलों में चार की हालत गंभीर बताई जा रही है। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने घटना पर दुख व्यक्त किया है। उन्होंने हादसे में मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख और गंभीर घायलों को 50-50 हजार रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है, साथ ही घायलों के इलाज की उत्तम व्यवस्था के निर्देश जिला प्रशासन को दिए हैं।   जानकारी के अनुसार बक्सवाहा क्षेत्र जुझारपुरा गांव में रहने बाले ब्रजेश लोधी के घर नया ट्रैक्टर-ट्रॉली आया थी, जिसका पूजा-पाठ कराने के लिए सोमवार को घर और गांव के करीब 35 लोग ट्रैक्टर-ट्रॉली पर सवार होकर जटाशंकर धाम जा रहे थे। किशनगढ़ थाना क्षेत्र अंतर्गत राईपुरा घाटी के पास चालक ने तेज रफ्तार में ट्रैक्टर चलाकर आगे जा रहे दूसरे ट्रैक्टर को ओवरटेक किया। इस दौरान रोड संकरा होने की वजह से ट्रैक्टर नीचे उतर गया और ट्रैक्टर-ट्रॉली अनियंत्रित होकर पलट गई। घटना की जानकारी मिलते ही किशनगढ़़ थाना प्रभारी राजकुमार तिवारी अपने पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और राहत कार्य शुरू किया। पुलिस ने तुरंत सभी घायलों को एम्बुलेंस की मदद से नजदीकी बिजावर अस्पताल पहुंचाया। वहीं, गंभीर रूप से घायलों को प्राथमिक उपचार के बाद छतरपुर जिला अस्पताल रेफर किया गया है।     किशनगढ़ थाना प्रभारी राजकुमार तिवारी ने बताया कि हादसे में तीन लोगों की मौत हो गई है। मृतकों की पहचान नम्रता लोधी (15 वर्षीय), रवि लोधी (10 वर्षीय) और दिव्या लोधी (12 वर्षीय) के रूप में हुई है। वहीं, हादसे में 32 लोग घायल हुए हैं, जिन्हें 108 एंबुलेंस के माध्यम से जिला अस्पताल में लाया गया, जहां पर डॉक्टरों की टीम सभी घायलों का इलाज कर रही है। जिनमें से चार की हालत गंभीर होने पर उन्हें छतरपुर जिला अस्पताल से रेफर किया गया है।     मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स के माध्यम से छतरपुर जिले के राईपुरा घाटी में ट्रैक्टर पलटने की दुर्घटना में तीन व्यक्तियों के असामयिक निधन पर गहन शोक व्यक्त किया है। उन्होंने ईश्वर से दिवंगत आत्माओं की शांति व परिजनों को यह दु:ख सहन करने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की है। मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने जिला प्रशासन को दुर्घटना में मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख रुपए और गंभीर घायलों को 50-50 हजार रुपये की आर्थिक सहायता एवं घायलों के समुचित उपचार की व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 February 2024

morena, Heavy rain , cool weather

मुरैना। शहर में रविवार की शाम को आसमान पर घुमड़ रहे घने बादलों के चलते बूंदाबांदी सुरू हो गई, जो देर रात तेज बारिश में तब्दील हो गई। इससे सोमवार सुबह मौसम में हल्की ठण्डक घुल गई। इससे तापमान में लगभग एक डिग्री की गिरावट हो सकती है। इस पानी से सरसों, गेहूं, चना सहित दलहन फसलों को कोई नुकसान नहीं है। मौसम विभाग ने अगले दो दिन ऐसा ही ऐसा ही मौसम रहने की संभावना जताई है।     मौसम विभाग की मानें तो देश में पश्चिमी विछोभ के कारण मौसम ने तेज गति से बदलाव देखा जा रहा है। मौसम विशेषज्ञों द्वारा बीते सप्ताह पूर्वानुमान घोषित किया था। उसके अनुसार ही विगत दिवस ही मौसम काफी बिगड़ा हुआ दिखाई दिया। सोमवार को भी आसमान पर घने बादल छाये होने के कारण रात में पानी की संभावना बन रही है। हालांकि, मौसम के पूर्वानुमान अनुसार कल 6 फरवरी से मौसम में सुधार होने की संभावना है।   मौसम विभाग के अनुसार, रविवार को जिले में न्यूनतम तापमान 14 डिग्री व उच्चतम तापमान 20 डिग्री पर दर्ज किया गया। दोनों तापमान नजदीक होने के कारण देर रात बारिश के साथ कहीं-कहीं बहुत हल्के ओले पडऩे की सूचना है। अंचल के मौसम विशेषज्ञों का मानना है कि आगामी दो दिवस तापमान में हल्की गिरावट के कारण सर्दी का असर रहेगा। इसके बाद आसमान साफ होने पर वातावरण सामान्य हो जायेगा। न्यूनतम तापमान 9 से 10 डिग्री तथा उच्चतम तापमान 21 से 22 डिग्री रहने की संभावना है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 February 2024

bhopal, Chief Minister , good governance training class

भोपाल। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव यहां मंत्री परिषद के सदस्यों के लिए सुशासन एवं नीति विश्लेषण संस्थान में सुशासन प्रशिक्षण वर्ग के अंतर्गत जारी लीडरशिप समिट दूसरे दिन रविवार के प्रथम सत्र में शामिल हुए। उन्होंने कार्यक्रम में विधानसभा अध्यक्ष नरेंद्र सिंह तोमर का औषधि पौधा भेंट कर स्वागत किया।     समिट के दूसरे दिन के प्रथम सत्र में विधानसभा अध्यक्ष तोमर ने प्रशासनिक समन्वय और विधानसभा कार्य प्रणाली पर अपने विचार रखें। प्रथम सत्र में बजट, मंत्रालयीन कार्यप्रणाली, कार्य आवंटन नियम, विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र विकास योजना पर चर्चा होगी। इसके साथ ही प्रशासनिक संरचना, मीडिया प्रबंधन और समन्वय व सुशासन में प्रौद्योगिकी के महत्व पर विशेषज्ञ अपने विचार रखेंगे।     दोपहर के सत्र में अन्य राज्य सरकारों की सफल योजनाएं तथा इंदौर के स्वच्छ एवं विकसित शहर के रूप में उभरने की यात्रा पर चर्चा होगी। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव लीडरशिप समिट के समापन सत्र को संबोधित करेंगे।     सत्र में उपमुख्यमंत्री जगदीश देवड़ा तथा राजेंद्र शुक्ला, संसदीय कार्य मंत्री कैलाश विजयवर्गीय, पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री प्रहलाद पटेल सहित अन्य मंत्री उपस्थित हैं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 February 2024

bhopal, stop BJP , Dr. Mohan Yadav

भोपाल। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा कि कांग्रेस ने भगवान रामलला के प्राण-प्रतिष्ठा का आमंत्रण ठुकरा तो दिया, लेकिन अब न तो उगलते बन रहा और न निगलते। कांगेस के अच्छे कर्म नहीं हैं। पहले भी कांग्रेस भगवान राम के अस्तित्व को सर्वोच्च न्यायालय में नकार चुकी है। भगवान राम की प्राण-प्रतिष्ठा के समय मलेशिया में दो घंटे का अवकाश दिया गया। प्राण-प्रतिष्ठा में मुस्लिम धर्मावलंबी शामिल होकर एकजुटता का परिचय दिया। सभी कार्यकर्ता भोपाल लोकसभा में पिछली बार से अधिक मतों से जीत का रिकार्ड बनाने कार्य पर जुट जाएं। यह समय सनातन पर गर्व करने का है। 2024 के लोकसभा चुनाव में भाजपा को कोई रोकने वाला नहीं है। मुख्यमंत्री डॉ. यादव शनिवार शाम को यहां टीटी नगर के पास गैमन इंडिया बिल्डिंग में भोपाल लोकसभा चुनाव कार्यालय का उद्घाटन कर कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव कार्यालय भोपाल में अंगद के पांव जमाने जैसा है।   यह चुनाव अच्छाई बांटने और सनातन पर गर्व के नाम पर है मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2014 में कांग्रेस सरकार की नकारात्मकता और गुजरात मॉडल पर देश के विकास के नाम पर वोट मांगे थे। भारत की जनता ने लोकतंत्र के प्रति परिवक्वता दिखाते हुए 2014 में भाजपा की स्पष्ट बहुमत की सरकार बनाई थी। इसके बाद 2019 के लोकसभा चुनाव में हमने सुशासन व विकास के नाम पर वोट मांगे। नरेन्द्र मोदी ने प्रधानमंत्री के अपने पहले कार्यकाल में सुशासन स्थापित करके दिखा दिया। इसके साथ ही सम्राट विक्रमादित्य की तरह दुश्मनों के घर जाकर उन्हें सबक सिखा सकते हैं, यह बताया। अब इस बार सनातन पर गर्व है, अतीत पर गर्व है, ज्ञान-विज्ञान, अपनी क्षमताओं और दुनिया भर में अच्छाई बांटने के नाम पर जनता के बीच जा रहे हैं।   भोपाल की जनता ने हिंदुत्व को बदनाम करने वाले को धूल चटाया इस अवसर पर पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि भोपाल की जनता ने हिंदुत्व को बदनाम करने वाले को धूल चटाने का कार्य किया है। यह चुनाव 2047 के विकसित भारत के संकल्प का चुनाव है। विधानसभा चुनाव में सर्वाधित मत प्रतिशत भोपाल में बढ़ा है। 10 प्रतिशत वोट बढ़ाने का संकल्प लेकर कार्यकर्ता लोकसभा चुनाव कार्य में जुट जाएं।   उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव में पार्टी के कार्यकर्ताओं के परिश्रम से हमने प्रदेश में इतिहास बनाया था। पिछले लोकसभा चुनाव में पार्टी कार्यकर्ताओं के अथक मेहनत से एक ऐसे व्यक्ति को धूल चटाने का काम किया, जिसने हिंदुत्व को बदनाम करने और उनके मान-सम्मान पर प्रहार किया था। यह चुनाव 2047 के विकसित भारत के संकल्प के लिए चुनाव है। प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में हर गरीब के जीवन को बदलने और यात्रा को आगे बढाने का चुनाव है। 500 वर्षों के इंतजार के बाद अयोध्या में प्रभु श्रीरामलला आए हैं। आने वाले समय में राम राज्य की स्थापना का चुनाव है।   शर्मा ने कहा कि विधानसभा चुनाव में 17 प्रतिशत वोट शेयर भोपाल में बढा है। पार्टी को लोकसभा चुनाव में 58 प्रतिशत वोट प्राप्त हुआ था। भोपाल में पिछले लोकसभ चुनाव में पार्टी को 65 प्रतिशत मत प्राप्त हुआ था। परंतु इस बार मत प्रतिशत को और अधिक बढ़ाकर इतिहास बनाना है। विधानसभा चुनाव में भोपाल की उत्तर और मध्य विधानसभा हम हारे थे, वह कसक आज भी है। उन्होंने कार्यकर्ताओं से आव्हान करते हुए कहा कि भोपाल लोकसभा में 8 विधानसभा और मध्यप्रदेश में 29 लोकसभा सीटें जीतकर इतिहास बनाएंगे।   इस अवसर पर पार्टी के प्रदेश महामंत्री भगवानदास सबनानी, विधायक रामेश्वर शर्मा व सुदेश राय, सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर, महापौर मालती राय, पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष आलोक शर्मा, कांतदेव सिंह, सीमा सिंह जादौन, प्रदेश मंत्री राहुल कोठारी, प्रदेश मीडिया प्रभारी आशीष अग्रवाल महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष माया नारोलिया, युवा मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष वैभव पंवार, सुमित पचौरी, पूर्व सांसद आलोक संजर, पूर्व विधायक ध्रुवनारायण सिंह, रवि मालवीय, केदार मंडलोई सहित कार्यकर्ता उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 February 2024

bhopal , MP Congress, Election Committee

भोपाल। आगामी लोकसभा चुनाव-2024 को दृष्टिगत रखते हुए कांग्रेस की प्रदेश स्तरीय चुनाव समिति (मध्यप्रदेश) और मप्र कांग्रेस लोकसभा क्षेत्र प्रभारियों की बैठक शनिवार को प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में आहूत की गई। अभा कांग्रेस कमेटी लोकसभा चुनाव स्क्रीनिंग कमेटी (मध्यप्रदेश) की अध्यक्षा रजनी पाटिल के मुख्य आतिथ्य और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी की अध्यक्षता में बैठक आहूत की गई है। बैठक में समिति के सदस्य कृष्णा अल्लावरू और परगट सिंह भी उपस्थित रहे। पूर्व मुख्यमंत्रीद्वय कमलनाथ और दिग्विजय सिंह जूम के माध्यम से बैठक में शामिल हुये। बैठक में आगामी लोकसभा चुनाव की रणनीति पर गहन मंथन हुआ। बैठक के बाद सभी सदस्यों से वन-टू-वन चर्चा हुई।   बैठक में पार्टी के वरिष्ठ नेतागण प्रदेश स्तरीय चुनाव समिति के सदस्य पूर्व मंत्री कांतिलाल भूरिया, पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह राहुल भैया और डॉ. गोविंद सिंह, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष एन.पी. प्रजापति, पूर्व मंत्री कमलेश्वर पटेल सज्जन सिंह वर्मा, पी.सी. शर्मा, रामनिवास रावत, फूलसिंह बरैया, महेश परमार, हेमंत कटारे, आरिफ मसूद, संजय उईके, यादवेन्द्र सिंह, फुंदेलाल मार्को, दिलीप गुर्जर, संजय शर्मा, रवि जोशी, तरवर लोधी, अजय मिश्रा बाबा, जगत बहादुर सिंह, राजीव सिंह, राजमणि पटेल, रामसिया भारती, नीलांशु चतुर्वेदी, सत्य नारायण पटेल, डॉ. विक्रांत भूरिया, योगेश यादव, विभा पटेल और आशुतोष चौकसे आदि उपस्थित थे।     वहीं मप्र कांग्रेस लोकसभा क्षेत्र प्रभारियों की बैठक लोकसभा क्षेत्र प्रभारी कांग्रेस नेतागण जयवर्धन सिंह, नितेन्द्र राठौर, विपिन बानखेड़े, लाखन सिंह, रामचंद्र दांगी, फूलसिंह बरैया, लखन घनघौरिया, संजय यादव, रजनीश सिंह, विनय सक्सेना, डॉ. अशोक मसकोले, सुखदेव पांसे, सुखेन्द्र सिंह बना, संजय शर्मा, दीपक जोशी, हर्ष यादव, प्रियव्रत सिंह, सत्यनारायण पटेल, बाबूलाल यादव, दिलीप गुर्जर, सचिन यादव, रवि जोशी, बाला बच्चन, रामलाल मालवीय, आर.के. दोगने और आरिफ मसूद उपस्थित थे।     मप्र विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंगार अस्वस्थता के चलते अस्पताल में भर्ती होने के कारण बैठक में शामिल नहीं हुये। वहीं पूर्व केंद्रीयमंत्रीद्वय सुरेश पचौरी और अरूण यादव नेे पारिवारिक (विवाह) कार्यक्रम में व्यस्तता के चलते अपने लिखित सुझाव भेजे हैं। स्क्रीनिंग कमेटी (मध्यप्रदेश) की अध्यक्षा पाटिल, समिति के दोनों सदस्यों ने उक्त बैठकों के बाद लोकसभा चुनाव लड़ने वाले इच्छुक नेताओं और कांग्रेसजनों से मुलाकात की।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 February 2024

bhopal, NCC paves, Chief Minister Dr. Yadav

भोपाल। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा कि मानव जीवन भाग्य से मिलता है और भाग्य को सौभाग्य में बदलने का रास्ता एनसीसी से प्राप्त होता है। भारत एक बड़ी आबादी वाला देश है। इसमें जल, वायु, थल सेना की संख्या मात्र साढ़े तेरह लाख है और इन साढ़े तेरह लाख जवानों पर पूरा देश अपनी सुरक्षा का विश्वास करता है। हमारी सेना हर चुनौती का सामना करने में सक्षम है। सेना की इस गौरवशाली परम्परा से जुड़ने का मार्ग एनसीसी से निकलता है।     मुख्यमंत्री डॉ. यादव नई दिल्ली में आयोजित गणतंत्र दिवस समारोह 2024 के अवसर पर लगे कैम्प में शामिल हुए राष्ट्रीय कैडेट्स कोर के मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़ निदेशालय के प्रतिभागियों को शनिवार को मुख्यमंत्री निवास परिसर में संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि घुड़सवारी में छह पदक जीतना महत्वपूर्ण उपलब्धि है। मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ के कैडेट्स द्वारा अर्जित की गईं उपलब्धियाँ सराहनीय हैं। सभी कैडेट्स बधाई के पात्र हैं।   मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने उपलब्धियां प्राप्त करने वाले कैडेट्स को सम्मानित भी किया। राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर के आयोजनों में श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले कैडेट्स को मुख्यमंत्री डॉ. यादव द्वारा 6 लाख 25 हजार रुपये के पुरस्कार के रूप में चैक भी प्रदान किए गए।     एनसीसी का ध्येय वाक्य एकता, अनुशासन और संगठन के प्रति समर्पण है मुख्यमंत्री ने कहा कि एनसीसी के कार्यक्रम में भाग लेना अपने परिवार में आने के समान है। मैं स्वयं शाला स्तर पर एनसीसी का सक्रिय कैडेट रहा हूँ। कैडेट्स द्वारा अर्जित की गईं उपलब्धियाँ उनकी प्रतिबद्धता की परिचायक हैं। मुझे विश्वास है कि कैडेट्स अगले वर्ष प्रथम स्थान का लक्ष्य रखकर परिश्रम के साथ निरंतर प्रयास करेंगे। एनसीसी का ध्येय वाक्य एकता, अनुशासन और संगठन के प्रति समर्पण है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में इन उद्देश्यों के साथ कार्य करना हम सबको गौरव और आत्म-सम्मान प्रदान करता है। प्रधानमंत्री मोदी ने दीपावली का पर्व सीमा पर खड़े सेना के जवानों के साथ मनाकर अद्भुत आदर्श प्रस्तुत किया है।     गणतंत्र दिवस का एनसीसी कैम्प जीवनभर याद रहता है मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा कि भारत विश्व का सबसे युवा देश है। हमें आगे कई लक्ष्य प्राप्त करने हैं। एनसीसी के माध्यम से देश के सभी युवा प्रेरणा पाएं। गणतंत्र दिवस शिविर के दौरान 28 राज्यों और 8 केन्द्र शासित प्रदेशों के कैडेट्स के साथ बिताया समय जीवनभर की यादों की धरोहर बनता है। अलग भाषा, अलग प्रदेश फिर भी अपना एक देश, इस भिन्नता के बाद भी देश की एकता और आत्मीयता का अनुभव ऐसे शिविरों में ही होता है।     मानवता मूल्यों की स्थापना में देश की विशिष्ट पहचान है उन्होंने कहा कि विश्व में मानवता के मूल्यों की स्थापना करने में हमारे देश की विशिष्ट पहचान है। हम वसुधैव कुटुम्बकम के विचार को मानकर पूरे विश्व को अपना परिवार मानते हैं। स्वामी विवेकानंद ने कहा था 21वीं शताब्दी भारत की होगी और वर्तमान में भारतीय, विभिन्न क्षेत्रों में प्राप्त उपलब्धियों से विश्व को हमारे देश की प्रतिभा और सक्षमता का परिचय करा रहे हैं।     युवा पीढ़ी और एनसीसी जैसे संगठनों के बल पर देश निरंतर प्रगति करेगा मुख्यमंत्री ने कहा कि भारत विश्व का सबसे बड़ा लोकतंत्र है, इस नाते बहुत सी चुनौतियां भी विद्यमान हैं। युवा पीढ़ी और एनसीसी जैसे संगठनों के बल पर देश निरंतर प्रगति करेगा। एनसीसी में मिलने वाला प्रशिक्षण कैडेट्स की सफलता का आधार होगा।   मुख्यमंत्री ने सीएम बैनर 2023-24 के विजेता भोपाल समूह को किया सम्मानित मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने राष्ट्रीय कैडेट कोर (एनसीसी) सीएम बैनर 2023-24 के विजेता 'भोपाल समूह' को सीएम बैनर से सम्मानित किया। उल्लेखनीय है कि मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़ निदेशालय के अंतर्गत छह ग्रुप भोपाल, इंदौर, ग्वालियर, जबलपुर, सागर और रायपुर शामिल हैं। मुख्यमंत्री ने राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय आयोजनों में प्रतिष्ठित पुरस्कार प्राप्त करने वाले कैडेट्स को सम्मानित भी किया। मुख्यमंत्री डॉ. यादव को स्मृति चिन्ह भेंट किया गया।     एनसीसी कैडेट्स ने दीं सांस्कृतिक प्रस्तुतियां कार्यक्रम में स्कूल शिक्षा तथा परिवहन मंत्री उदय प्रताप सिंह उपस्थित थे। मध्य प्रदेश छत्तीसगढ़ निदेशालय के अपर महानिदेशक मेजर जनरल अजय कुमार महाजन ने मध्य प्रदेश छत्तीसगढ निदेशालय की उपलब्धियों और एनसीसी अंतर ग्रुप सीएम बैनर 2023-24 में भोपाल ग्रुप के प्रथम स्थान प्राप्त करने के लिए अर्जित उपलब्धियों की जानकारी दी। कार्यक्रम में एनसीसी के कैडेट्स ने गणगौर नृत्य, समूह गीत प्रस्तुत किए तथा अपने अनुभव भी सुनाए।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 February 2024

rajgarh, Eight injured , car overturning

राजगढ़। राष्ट्रीय राजमार्ग-46 पर देहात ब्यावरा थाना क्षेत्र में शनिवार दोपहर ग्राम बारवां जोड़ के समीप तेज रफ्तार मारुति वेन अनियंत्रित होकर पलट गई। इस हादसे में कार में सवार तीन बच्चे सहित आठ लोग घायल हो गए, जिन्हें प्राथमिक चिकित्सा के बाद भोपाल रेफर किया गया, जिनमें एक आठ वर्षीय बालक की हालत गंभीर बताई गई है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मामले में जांच शुरु की।   पुलिस के अनुसार हाइवे स्थित ग्राम बारवां जोड़ के समीप भोपाल से ब्यावरा जा रही तेज रफ्तार मारुति वेन क्रमांक एमपी 04 सीएक्स 2197 अनियंत्रित होकर दो से तीन बार पलट गई। हादसे में कार सवार सुनीताबाई (34)पत्नी मोहन मेहर, धु्रव (8) पुत्र मोहन, पूर्व (3)पुत्र धर्मेन्द्र, अरव (6)पुत्र धर्मेन्द्र, सुनीताबाई (25)पत्नी धर्मेन्द्र, पूजाबाई (25)पत्नी राजेश, नानीबाई (24)पत्नी ओम, यशोदाबाई (25)पत्नी भंवरलाल सर्वनिवासी भोपाल गंभीर रुप से घायल हो गए। सूचना पर पहुंचे 100 डायल वाहन के स्टाफ ने घायलों को सिविल अस्पताल पहुंचाया, जहां से प्राथमिक उपचार के बाद भोपाल रेफर किया गया, जिनमें आठ वर्षीय बालक की हालत गंभीर बताई गई है। बताया गया है कि कार में सवार लोग भोपाल से ब्यावरा के कांचरी गांव में आयोजित शादी समारोह में शामिल होने जा रहे थे वहीं टायर फटने से तेज रफ्तार मारुति वेन अनियंत्रित होकर पलट गई। पुलिस ने मामले में जांच शुरु की।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 February 2024

bhopal, Lok Sabha elections , Vishnudutt Sharma

भोपाल। लोकसभा चुनावों को लेकर आज हमारे क्लस्टर के संयोजक, प्रभारी, सभी लोकसभाओं के संयोजक, प्रभारी और विस्तारकों की बैठकें हुईं। जिस तरह से हमने विधानसभा चुनाव प्रत्येक बूथ पर लड़ा था, उसी तरह हम लोकसभा चुनाव भी प्रत्येक बूथ पर 10 प्रतिशत वोट शेयर बढ़ाने के संकल्प के साथ लड़ेंगे। आज की बैठकों में इसी को लेकर विचार-विमर्श हुआ तथा वरिष्ठ नेताओं का मार्गदर्शन मिला है। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने मीडिया से बातचीत के दौरान कही।   68 से 70 प्रतिशत वोट हासिल करना हमारा लक्ष्य शर्मा ने कहा कि वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में हमने 58 फीसदी वोट हासिल किए थे। इस बार हमने हर बूथ पर 10 प्रतिशत वोट बढ़ाने यानी 68 से 70 फीसदी वोट हासिल करने का लक्ष्य रखा है। हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार और मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव के नेतृत्व वाली राज्य सरकार की गरीब कल्याण की योजनाओं, इन योजनाओं से लाभान्वित हुए हितग्राहियों तथा अपने संगठन तंत्र के बलबूते पर यह लक्ष्य हासिल करेंगे और सभी 29 सीटों पर जीत हासिल करेंगे।     मध्यप्रदेश में फिर इतिहास बनाएंगे   भाजपा प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने कहा कि आज की बैठक में मार्गदर्शन देने के लिए राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बी.एल.संतोष जी, राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री शिवप्रकाश विशेष तौर पर उपस्थित रहे। साथ ही लोकसभा चुनाव के प्रदेश प्रभारी डॉ. महेंद्र सिंह एवं सह प्रभारी सतीश उपाध्याय भी उपस्थित रहे। उन्होंने आज ही कार्यभार संभाला है। उन्हें मैं बहुत-बहुत शुभकामनाएं देता हूं और हम सब मिलकर एक बार फिर मध्यप्रदेश में इतिहास बनाएंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 February 2024

bhopal, BJP , cluster in-charge

भोपाल। लोकसभा चुनाव के मद्देनजर शनिवार प्रदेश भाजपा कार्यालय में विभिन्न स्तर की बैठकों का आयोजन किया गया। इस दौरान भाजपा ने लोकसभा चुनाव के लिए क्लस्टर इंचार्ज के प्रभारों में फेरबदल किया है। इसके अनुसार नरोत्तम मिश्रा सागर, भूपेंद्र सिंह ग्वालियर तथा राजेंद्र शुक्ला भोपाल कलस्टर के इंचार्ज होंगे। भाजपा लोकसभा चुनाव के लिए जुट गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 11 फरवरी को मध्यप्रदेश दौरे पर आ सकते हैं। वे झाबुआ से लोकसभा चुनाव का बिगुल बजाएंगे। प्रदेश भाजपा ने इसकी तैयारियां शुरू कर दी हैं। लोकसभा चुनाव की तैयारी के लिए भाजपा की शनिवार को बड़ी बैठकें हुईं, जिनमें पार्टी के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष, लोकसभा चुनाव प्रभारी महेंद्र सिंह, सह प्रभारी सतीश उपाध्याय और प्रदेश भाजपा के तमाम पदाधिकारी मौजूद हैं। प्रदेश भाजपा कार्यालय में शनिवार को सबसे पहले कलस्टर प्रभारियों की बैठक हुई। इसमें प्रधानमंत्री मोदी के दौरे पर चर्चा की गई। फरवरी के दूसरे हफ्ते से अमित शाह के साथ पार्टी के दूसरे दिग्गज चुनाव प्रचार के लिए आ सकते हैं। छिंदवाड़ा में जेपी नड्डा, राजनाथ सिंह की सभाएं हो सकती हैं। इसी दौरान लोकसभा कलस्टर के प्रभारियों में बदलाव किया गया। नई व्यवस्था के अनुसार अब सागर कलस्टर नरोत्तम मिश्रा देखेंगे, ग्वालियर कलस्टर में भूपेंद्र सिंह को इंचार्ज बनाया गया, वहीं भोपाल कलस्टर को अब राजेंद्र शुक्ला देखेंगे।   कौन, किस क्लस्टर का प्रभारी भूपेंद्र सिंह-ग्वालियर   कैलाश विजयवर्गीय-जबलपुर विश्वास सारंग-उज्जैन जगदीश देवड़ा-इंदौर राजेंद्र शुक्ल- भोपाल प्रह्लाद पटेल- रीवा नरोत्तम मिश्रा- सागर

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 February 2024

agarmalwa, School van collides , children injured

आगर मालवा। जिले के सुसनेर में एक स्कूल वैन शनिवार दोपहर डिवाइडर से टकरा गई। इस हादसे में वैन में सवार 12 बच्चे घायल हो गए। साथ ही ड्राइवर-कंडक्टर भी जख्मी हो गए।   प्राप्त जानकारी के अनुसार सरस्वती शिशु मंदिर से बच्चों को लेकर घर छोड़ने जा रही एक स्कूल बस अनियंत्रित होकर रोड डिवाइटर से टकरा गई। इससे पहले वैन शहर के पुराने पेट्रोल पंप के पास रेलिंग से टकराई थी। हादसे में बस में सवार 12 बच्चे तथा ड्राइवर, कंडक्टर घायल हो गए। घायलों को स्थानीय लोगों ने सिविल हॉस्पिटल पहुंचाया। यहां से चार बच्चों और कंडक्टर को जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 February 2024

bhopal,AED service, Deputy Chief Minister Shukla

भोपाल। उप मुख्यमंत्री राजेंद्र शुक्ल ने शुक्रवार को राजा भोज एयरपोर्ट भोपाल में स्वचालित बाह्य डिफिब्रिलेटर (एईडी) सुविधा का शुभारंभ किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि राजा भोज हवाई अड्डे पर एईडी की स्थापना एक सराहनीय पहल है। यह हवाई यात्रा को और अधिक सुरक्षित बनाने में सहायक होगी। यात्रियों और कर्मचारियों के जीवन की रक्षा में यह सुविधा महत्वपूर्ण है। भोपाल एयरपोर्ट मध्य प्रदेश का पहला हवाई अड्डा है जहां इस प्रकार की सुविधा उपलब्ध है।     उप मुख्यमंत्री ने केंद्रीय नागरिक विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को इस सुविधा के लिए आभार व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि भोपाल एयरपोर्ट में एम्बुलेंस सेवा उपलब्ध रहेगी।   नागर विमानन महानिदेशालय के निर्देशानुसार यह सुविधा सभी हवाईअड्डों पर होना आवश्यक है। भोपाल विमानतल में 4 स्थल आगमन, प्रस्थान, सिक्योरिटी होल्ड एरिया एवं पैसेंजर बोर्डिंग ब्रिज में इस डिवाइस को स्थापित किया गया है। अपोलो सेज अस्पताल, भोपाल की टीम ने एयरपोर्ट में उपस्थित यात्रियों को एईडी के उपयोग पर डिमॉन्सट्रेशन दिया। इस अवसर पर विमानपत्तन निदेशक रामजी अवस्थी, डीसी सीआईएसएफ़ मान सिंह उपस्थित थे।   क्या है स्वचालित बाह्य डिफिब्रिलेटर (एईडी) स्वचालित बाह्य डिफिब्रिलेटर (एईडी) एक पोर्टेबल इलेक्ट्रॉनिक उपकरण है जो हृदय की धड़कन को सामान्य करने के लिए बिजली के झटके देता है। यह अचानक हृदय गति रुकने की स्थिति में तुरंत इस्तेमाल किया जा सकता है, जिससे मस्तिष्क और अन्य महत्वपूर्ण अंगों को गंभीर क्षति होने से बचाया जा सकता है।     हृदय गति रुकने पर एईडी का उपयोग कैसे करें   स्वचालित बाह्य डिफिब्रिलेटर (एईडी) चालू करें और डिवाइस के निर्देशों का पालन करें। इलेक्ट्रोड को व्यक्ति की छाती पर निर्दिष्ट स्थानों पर चिपकाएं। यदि एईडी झटका देने की सलाह देता है, तो डिवाइस के निर्देशों का पालन करें। एईडी का उपयोग करने के बाद सीपीआर जारी रखें, जब तक कि चिकित्सीय सहायता न पहुँच जाए।     यह महत्वपूर्ण है कि प्रशिक्षित चिकित्सक नहीं होने पर भी एईडी का उपयोग किया जा सकता है। एईडी स्वचालित रूप से व्यक्ति को झटका नहीं देगा जब तक कि उसकी आवश्यकता न हो। डिवाइस स्पष्ट और सरल निर्देश प्रदान करता है, जिसका पालन करके कोई भी व्यक्ति आपात स्थिति में मदद कर सकता है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 February 2024

jabalpur, SP suspended ,taking bribe

जबलपुर। लोकायुक्त पुलिस ने गुरुवार रात जिस हेड कॉन्स्टेबल को 40 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए पकड़ा है, उसे एसपी ने शुक्रवार को निलंबित कर दिया है। आरोपी हेड कांस्टेबल एक प्रॉपर्टी डीलर को 20 दिन से धमका रहा था। कभी घर जाकर, तो कभी फोन पर उनसे एक लाख रुपए की डिमांड करता। कहता था कि अगर रुपए नहीं दिए, तो 420 में केस बनाकर अंदर कर देगा।   प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रॉपर्टी डीलर संदीप यादव के खिलाफ शराब कारोबारी राजेंद्र जायसवाल ने गोरा थाने में शिकायत की थी। इसी शिकायत को रफा-दफा करने के बदले गोरा थाने में पदस्थ हेड कॉन्स्टेबल उर्मिलेश ओझा रुपए की डिमांड कर रहा था। बाद में रिश्वत की रकम 50 हजार, फिर 40 हजार रुपए तय हुई। शुक्रवार को हेड कॉन्स्टेबल उर्मिलेश को जबलपुर एसपी ने निलंबित कर दिया है। मामले में गोरा थाने के एक और हेड कॉन्स्टेबल राजेश गौतम का भी नाम सामने आ रहा है। पुलिस इसकी भी जांच कर रही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 February 2024

bhopal, Campaign ,Chief Minister Dr. Yadav

भोपाल। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा है कि तालाबों व जल स्त्रोतो के संरक्षण के लिए प्रदेश में जनभागीदारी से गतिविधियों को अभियान का रूप दिया जाएगा। इंदौर के तालाबों के साथ-साथ प्रदेश के अन्य वेटलैंड क्षेत्रों को रामसर साइट के रूप में घोषित कराने का प्रयास किया जाएगा। यह बात मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने शुक्रवार को विश्व वेटलैंड दिवस 2024 पर इंदौर के रामसर साईट सिरपुर में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कही।   मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा कि विश्व के सभी देशों में केवल भारत में ही देश को माता स्वरूप माना जाता है। वसुधैव कुटुम्बकम का सिद्धांत यह प्रतिपादित करता है कि संपूर्ण वसुधा हमारे लिए कुटुम्ब के समान है। हमारी संस्कृति में सभी प्रकार के जीव-जंतु, नदी-पहाड़-पर्वत में ईश्वर का स्वरूप माना गया है। उन्होंने कहा कि पौधों में जीवन होने के तथ्य को प्रमाणित करने वाले नोबल पुरस्कार से सम्मानित वैज्ञानिक हरगोविंद खुराना ने कहा था कि पेड़-पौधों में प्राण होने का विश्वास भारतीय मानस में सांस्कृतिक रूप से रचा-बसा है। उन्होंने विश्व में इस मान्यता को स्थापित करने मात्र के लिए वैज्ञानिक रूप से इसे प्रमाणित किया।   यशवंत सागर के कमल और सिरपुर की जलकुंभी से बने पुष्पगुच्छों से हुआ अतिथियों का स्वागत मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने विश्व वेटलैंड दिवस पर देश में वेटलैंड के क्षेत्र में किए गए उल्लेखनीय कार्यों और वेटलैंड से प्राप्त होने वाले विभिन्न प्रकार के पदार्थ तथा उत्पादों पर लगाई गई प्रदर्शनी का फीता काटकर शुभारंभ कर प्रदर्शनी का अवलोकन भी किया। मुख्यमंत्री डॉ. यादव को यशवंत सागर के कमल और सिरपुर की जलकुंभी से बने पुष्पगुच्छ भेंट कर उनका स्वागत किया गया।   इंदौर को रामसर सिटी बनाने की बात स्वागत योग्य मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा कि काल के प्रवाह में आई विसंगतियों के परिणामस्वरूप हमारे प्राकृतिक संसाधन प्रदूषित हुए। इंदौर में 300 साल पहले निर्मित हुआ सिरपुर तालाब पेयजल की आपूर्ति करता था। बदली जीवनशैली के परिणामस्वरूप घरों से निकलने वाले वेस्ट वॉटर के कारण हमारे कई जल स्त्रोत प्रदूषित हुए हैं। परिणामस्वरूप केवल जल ही नहीं खराब हुआ अपितु सम्पूर्ण पारस्थितिकी तंत्र में असंतुलन आया है, पेड़-पौधे-पक्षी प्रभावित हुए हैं। इस परिस्थिति में इन जल स्त्रोतों को बचाने की बहुत आवश्यकता है। यशवंत सागर, रामसर साइट पहले से ही था और सिरपुर भी रामसर साइट बना है। अब इंदौर को रामसर सिटी बनाने की बात स्वागत और बधाई योग्य है।मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा कि राज्य सरकार तालाबों को बचाने के पुनीत कार्य में रामसर सचिवालय को हरसंभव सहयोग देने के लिए सदैव तत्पर रहेगी।   रामसर साइट्स के फूलों की डॉक्यूमेंट्री एवं पुस्तकों का विमोचन   मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने कार्यक्रम में भारत सरकार द्वारा वेटलैंड के रखरखाव पर विकसित मार्गदर्शिका, जर्नी ऑफ़ वैटलैंड कंजर्वेशन इन इंडिया, भारत की रामसर साइट्स पर केंद्रित पुस्तिका तथा बोटैनिकल सर्वे ऑफ़ इंडियन फ्लोरल डॉक्यूमेंट्री आफ रामसर साइट्स पुस्तकों का विमोचन किया। मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने वेटलैंड अमृत धरोहर और वेटलैंड के गाइड्स के लिए प्रशिक्षण सामग्री का डिजिटल विमोचन भी किया। इसके साथ ही वेटलैंड फॉर लाइफ विषय पर होने वाले फिल्म फेस्टिवल का टीजर भी जारी किया गया। कार्यक्रम में बलोदा बाजार छत्तीसगढ़ के बच्चों द्वारा वेटलैंड के प्रति सकारात्मक दृष्टिकोण पर केंद्रित नुक्कड़ नाटक प्रस्तुत किया गया।     कुंओं, तालाबों और जल स्त्रोतों का सम्मान हमारे संस्कार से जुड़ा है : मंत्री विजयवर्गीय   नगरीय प्रशासन मंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि कुंओं, तालाबों और जल स्त्रोतों का सम्मान और उनके प्रति श्रद्धा भाव हमारी संस्कृति का हिस्सा रहे हैं और यह हमारे संस्कार से जुड़े हैं। उनकी बर्बादी के लिए भी हम ही जिम्मेदार हैं, लेकिन अब जल स्त्रोतों के संरक्षण और उन्हें साफ-सुथरा रखने के लिए समाज में जागरूकता आई है।     तालाबों के संरक्षण में भी इंदौर मिसाल प्रस्तुत करेगा : मंत्री सिलावट   जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट ने अतिथियों का देश के सबसे स्वच्छ शहर इंदौर में स्वागत करते हुए कहा कि इंदौर जो भी करता है, वह अद्भुत करता है और उसकी छाप राष्ट्र के पटल पर अंकित होती है। तालाबों व अन्य जल स्त्रोतों के संरक्षण के क्षेत्र में भी इंदौर मिसाल प्रस्तुत करेगा।     प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में जल संरक्षण और जैव विविधता को बचाने सराहनीय कार्य हुआ : डॉ. मुम्बाशा रामसर सचिवालय की महासचिव डॉ. मुसोंदा मुम्बाशा ने कहा कि भारत में 1982 में मात्र दो रामसर साइट्स थीं, जो अब बढ़कर 80 हो गई हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारत में जल संरक्षण और जैव विविधता को बचाने के लिए जारी कार्य सराहनीय और प्रेरणास्पद है। शीघ्र ही इंदौर को रामसर सिटी के रूप में जाना जाएगा।   कार्यक्रम में पर्यावरण एवं वन मंत्री नागर सिंह चौहान, पर्यावरण एवं वन राज्य मंत्री दिलीप अहिरवार, इंदौर के महापौर पुष्यमित्र भार्गव, स्थानीय विधायक मालिनी गौड़ तथा देश के सभी राज्यों वेटलैंड प्राधिकरण के अधिकारी, वैज्ञानिक और देश के रामसर साइट्स के प्रबंधकों सहित 200 से अधिक विशेषज्ञ सम्मिलित हुए। उल्लेखनीय है कि प्रतिवर्ष 02 फरवरी को विश्व वेटलैण्ड्स दिवस मनाया जाता है। इस दिन 1971 में ईरान के रामसर शहर में तालाबों को बचाने के लिए अंतर्राष्ट्रीय संधि पर हस्ताक्षर किए गए थे। तालाबों के प्रति जागृति लाने के उद्देश्य से ये दिवस मनाया जाता है। इस वर्ष की थीम ‘‘Wetlands and Human Wellbeing’’ है। इसका मुख्य उद्देश्य यह रेखांकित करना है कि तालाबों का संरक्षण और मनुष्यों के कल्याण का अंर्तसंबंध हैं और तालाब और मनुष्य परस्पर एक दूसरे पर निर्भर हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 February 2024

bhopal, Digvijay Singh, Election Commission

भोपाल। राज्यसभा सांसद एवं पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा ईवीएम मशीनों की एफएलसी एवं सिंबल लोडिंग यूनिट(एसएलयू) के साॅफ्टवेअर की जानकारी देने संबन्धी पत्र के चुनाव आयोग द्वारा दिये गये जवाब को निराशाजनक एवं भ्रामक बताया है।   दिग्विजय सिंह ने गुरुवार को कहा कि 29 जनवरी 2024 को मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी, मध्यप्रदेश को पत्र लिखकर ईवीएम मशीनों की एफएलसी कराते समय सिंबल लोडिंग यूनिट के साॅफ्टवेअर की जानकारी कांग्रेस पार्टी सहित राजनीतिक दलों को उपलब्ध कराने की माॅग की गई थी। साथ ही इंटरनेट का उपयोग करते हुए कम्प्यूटर/लेपटाॅप के माध्यम से भेजी जाने वाली जानकारी भी राजनीतिक दलों को उपलब्ध कराने की मांग की गई थी। दिग्विजय सिंह ने कहा कि मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी, मध्यप्रदेश द्वारा अगले ही दिन 30 जनवरी को इसका भ्रामक उत्तर दे दिया गया जो चुनाव आयोग की पारदर्शिता पर सवाल खड़े करता है। कांग्रेस पार्टी द्वारा चुनाव आयोग से सिंबल लोडिंग यूनिट (एसएलयू) के साॅफ्टवेअर को उपलब्ध कराने की मांग की गई थी और साथ यह जानना चाहा था कि ईवीएम मशीनों की एफ.एल.सी. कराते समय इंटरनेट कनेक्शन युक्त पीसी/लेपटाॅप से भेजी जाने वाली जानकारी क्या है और किसे भेजी जाती है। यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी के जवाब में मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के दोनों प्रश्न अनुत्तरित हैं तथा इनके जवाब में एफ.एल.सी. की प्रक्रिया की जानकारी दे दी गई है। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा है कि मेन्युअल ऑन इलेक्ट्राॅनिक वोटिंग मशीन का हवाला देते हुये जिस प्रक्रिया की जानकारी मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी द्वारा दी गई है उसे सभी राजनीतिक दल पहले से ही जानते हैं और उसी की पारदर्शिता और प्रक्रिया पर संदेह पैदा होने के कारण सिंबल लोडिंग यूनिट के साफ्टवेअर की जानकारी चाही गई थी। जब चुनाव आयोग द्वारा कहा जाता है कि ईवीएम का इंटरनेट से कोई संबन्ध नही है तो हमारा सीधा सवाल है क्या सिंबल लोड करते समय इंटरनेट कनेक्शन की जरूरत होती है और यदि हां तो इस बात को छिपाने की क्या वजह है कि एफ.एल.सी. के समय इंटरनेट के माध्यम से संबंधित कक्ष में स्थापित कम्प्यूटर/लेपटाॅप से किसे और क्या जानकारी भेजी जाती है। दिग्विजय सिंह ने कहा कि ईवीएम के प्रति आम जनता और राजनीतिक दलों में चारों ओर जो संदेह फैल चुका है वह चुनाव आयोग को तत्काल दूर करना चाहिए एवं राजनीतिक दलों के ऐसे सवालों के सीधे जवाब दिये जाने चाहिए जो चुनाव की निष्पक्षता और पारदर्शिता पर छाये हुये कोहरे को साफ करते हों।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 February 2024

bhopal, Gwalior connected ,Scindia

भोपाल। केन्द्रीय नागरिक उड्डयन ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की हवाई चप्पल पहनने वाले को हवाई यात्रा की सुविधा उपलब्ध कराने की मंशा के अनुरूप देश में आम आदमी को हवाई यात्रा सुविधा का लाभ देने के लिए निरंतर कार्य किया जा रहा है। इसी क्रम में ग्वालियर अब देश के सात प्रमुख शहरों क्रमश: बैंगलोर, दिल्ली, हैदराबाद, इंदौर, अहमदाबाद, मुंबई और अयोध्या से हवाई मार्ग से जुड़ गया है।     केन्द्रीय मंत्री सिंधिया गुरुवार को नई दिल्ली से ग्वालियर-अहमदाबाद के बीच नियमित सीधी विमान सेवा के शुभारंभ कार्यक्रम को वर्चुअली संबोधित कर रहे थे। उन्होंने अकासा एयर लाइंस को ग्वालियर-अहमदाबाद सेक्टर में हवाई सेवा आरंभ करने के लिए शुभकामनाएं दीं। साथ ही ग्वालियर हवाई अड्डे पर मौजूद विमान को वर्चुअली हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया। सिंधिया ने कहा कि मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव की सहजता, कर्मठता और प्रगति तथा विकास के प्रति उनकी संकल्पबद्धता से मध्यप्रदेश में नया दौर आरंभ हुआ है। उन्होंने यह भी कहा कि ग्वालियरवासियों की आकांक्षाओं और आशाओं की पूर्ति की दिशा में यह एक और बड़ा कदम है।   इस अवसर पर केन्द्रीय नागर विमानन राज्यमंत्री एवं सेवानिवृत्त जनरल वीके सिंह ने भी वर्चुअल संबोधित किया। उन्होंने कहा कि ग्वालियर में अंतरराष्ट्रीय स्तर के हवाई अड्डे के निर्माण से हमें पूरी आशा है कि ग्वालियर में हवाई सेवाओं का और विस्तार होगा। साथ ही मध्यप्रदेश में भी उड़ाने बढ़ेंगी। उन्होंने सभी को नई फ्लाइट की शुभकामनायें दीं।   इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव भी मुरैना से वर्चुअली शामिल हुए। उन्होंने प्रदेश को मिली सौगात के लिए सभी को शुभकामनाएं दीं। ग्वालियर हवाई अड्डे पर हुए उद्घाटन कार्यक्रम में ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर तथा सामाजिक न्याय एवं दिव्यांगजन कल्याण, उद्यानिकी तथा खाद्य प्रसंस्करण मंत्री नारायण सिंह कुशवाह तथा विधायकगण उपस्थित थे।   अकासा एयरलाइन की मध्यप्रदेश की यह पहली फ्लाइट     अकासा एयरलाइन की ग्वालियर से अहमदाबाद फ्लाइट मध्यप्रदेश की पहली फ्लाइट है। कंपनी के अधिकारियों ने जानकारी दी कि ग्वालियर से यह फ्लाइट हर सोमवार को उपलब्ध होगी। फ्लाइट में कुल 189 सीट उपलब्ध रहेंगीं और इसका प्रारंभिक किराया लगभग चार हजार रुपये रखा गया है। यह फ्लाइट सोमवार को अहमदाबाद से प्रात: 10.55 बजे उड़ान भरेगी और दोपहर 12.45 बजे ग्वालियर पहुंचेगी। ग्वालियर से यह फ्लाइट दोपहर 1.20 बजे रवाना होगी और अपरान्ह 2.50 बजे अहमदाबाद पहुंचेगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 February 2024

bhopal, Interim budget ,Vishnudutt Sharma

भोपाल। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने जो अंतरिम बजट प्रस्तुत किया है, वह 2047 के विकसित भारत के संकल्प का आधार तैयार करने वाला बजट है। प्रधानमंत्री मोदी ने आत्मनिर्भर भारत की जो कल्पना की है, यह बजट उसे साकार करने वाला है। इस अंतरिम बजट में महिला, युवा, किसान, गरीब आदि सभी वर्गों पर फोकस है। यह सर्वव्यापी, सर्वसमावेशी और सर्वस्पर्शी बजट इस सोच पर आधारित है कि भारत का सर्वांगीण विकास किस तरह किया जा सकता है।   यह बात भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने गुरुवार को अंतरिम बजट 2024-25 में किए गए प्रावधानों के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के प्रति आभार जताते हुए कही। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सोच यह है कि युवा, किसान, गरीब, महिला आदि सभी वर्गों को मजबूती कैसे दी जा सकती है। उन्होंने कहा कि भाजपा सिर्फ चुनाव जीतने और सरकार में आने के लिए नहीं है, अयोध्या में श्रीराम मंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि यह देश के अमृतकाल की शुरुआत है। उनका संकल्प है कि आजादी के अमृतकाल में 2047 तक विकसित भारत कैसे बनाया जाए।   शर्मा ने कहा कि देश के अन्य नेता जो सोचते हैं, प्रधानमंत्री का विजन उससे 100 साल आगे का होता है। उन्होंने कहा कि अंतरिम बजट में इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए 11 लाख 11 हजार करोड़ रुपये का प्रावधान करना, रक्षा के क्षेत्र में 11.1 प्रतिशत की बढ़ोतरी करना इसी दिशा में उठाए गए कदम हैं। उन्होंने कहा कि भारत का लक्ष्य अगले तीन साल में 5 ट्रिलियन और 2030 तक 7 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनने का है, जिसे हासिल करने में यह बजट काफी मददगार सिद्ध होगा।     गरीब कल्याण के साथ सर्वहारा के हितों को पूरा करने वाला बजट   विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री का फोकस गरीब, युवा, किसान, महिला आदि सभी वर्गों के उत्थान पर है। इसीलिए इस बजट के अंदर भी दो करोड़ लोगों को प्रधानमंत्री आवास देने, स्व सहायता समूहों के माध्यम हमारी बहनों को सक्षम बनाने के प्रावधान किए गए हैं। हमारे लिए महिला सशक्तीकरण केवल नारा नहीं है, इसीलिए बजट में तीन करोड़ महिलाओं को लखपति दीदी बनाने का लक्ष्य रखा गया है। आंगनवाड़ी वर्कर को 5 लाख तक का फ्री में इलाज कराने का अधिकार आयुष्मान योजना में दिया जा रहा है। कोरोना काल में प्रधानमंत्री ने 80 करोड़ परिवारों को पांच किलो अनाज मुफ्त देना शुरू किया था, जिसे पांच साल के लिए और बढ़ा दिया गया है। यही वजह है कि हमारे प्रधानमंत्री जी की छवि गरीबों के मसीहा के रूप में बन गई है।   उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी की सरकार ने जो काम किए हैं, चाहे वो रामलला की प्राणप्रतिष्ठा हो, या गरीबों का जीवन बदलने तथा उन्हें सशक्त और सबल बनाने का अभियान हो, यही काम हमारी ताकत हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने भारत की संस्कृति और उसके सम्मान को सारी दुनिया में स्थापित किया है। चाहे वह अंतरराष्ट्रीय योगा डे हो या रामलला की प्राण प्रतिष्ठा हो, इनके साथ पूरी दुनिया खड़ी दिखाई दी। आज सारी दुनिया यह महसूस कर रही है कि यह नव भारत का नवोत्कर्ष है। यही हमारे आत्मविश्वास का आधार है। हमारी केंद्रीय वित्त मंत्री अगर यह कहती हैं कि जुलाई माह में हम बजट प्रस्तुत करेंगे, जिसमें बाकी चीजें आएंगी, तो यही हमारा कान्फिडेंस है। वीडी शर्मा ने कहा कि हम कहते हैं कि ’मोदी के मन में एमपी’ तो अब एमपी के मन में भी मोदी हैं। हमारा हर बूथ मोदी बूथ बनेगा और आगामी लोकसभा चुनाव में हम सभी 29 सीटों पर जीत हासिल करेंगे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में राम रीत से नए भारत का निर्माण हो रहा है। प्रधानमंत्री मोदी ने बदला भारत की राजनीति का कल्चर शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में राजनीति का कल्चर बदल गया है। राजनीति में एक वर्क कल्चर शुरू हुआ है, जिसका अर्थ है काम के आधार पर आगे बढ़ना। हर व्यक्ति, जो मिनिस्टर हो या कोई पार्टी पदाधिकारी हो, उसे शुचिता की राजनीति का दिखावा नहीं करना है, बल्कि इसे करके दिखाना है। यही प्रधानमंत्री की सोच है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री कहते हैं कि जो काम में नहीं करने के लिए दूसरों को कहता हूं, वो काम मैं स्वयं भी नहीं करता हूं। इसी में मेरा आत्मबल और आत्मविश्वास है। मध्यप्रदेश में हाल ही में हमारी नई सरकार बनी है और उस सरकार के मंत्रियों का भी एक प्रशिक्षण वर्ग गुड गवर्नेंस को लेकर होने जा रहा है। उसमें मंत्रियों को यह बताया जाएगा कि हमारे लिए गुड गवर्नेंस एक शब्द मात्र नहीं है, बल्कि हमें उसे साकार करके दिखाना है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 February 2024

bhopal, Kamal Nath , palm tree

भोपाल। नए वित्तवर्ष के लिए केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने अंतरिम बजट संसद में पेश कर दिया है। बजट को लेकर भाजपा और कांग्रेस दोनों दलों के राजनेताओं की प्रतिक्रिया सामने आ रही है। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने तो बजट की तुलना खजूर के पेड़ से की है। साथ ही उन्होंने बजट को महज झुनझुना बताया है। कमलनाथ ने सोशल मीडिया एक्स पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि बड़ा हुआ तो क्या हुआ जैसे पेड़ खजूर। पंछी को छाया नहीं फल लागे अति दूर। मोदी सरकार के आज पेश किए गए अंतरिम बजट की स्थिति कुछ ऐसी ही है। हमें आशा थी कि चुनाव से पूर्व के इस बजट में वित्त मंत्री बताएंगी कि प्रधानमंत्री ने जो हर वर्ष 2 करोड़ रोजगार देने का वादा किया था उस हिसाब से 20 करोड़ रोजगार देने का टारगेट कहीं पहुंचा भी या नहीं? पूर्व मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि मध्यमवर्ग को आशा थी कि सरकार इनकम टैक्स स्लैब में कोई छूट देगी लेकिन एक बार फिर से अपना जन विरोधी चेहरा सामने लाते हुए मोदी सरकार ने आयकर में कोई छूट नहीं दी। मोदी सरकार ने वादा किया था कि 2022 में किसानों की आमदनी दोगुनी कर दी जाएगी लेकिन आज 2024 के बजट में भी किसानों के पक्ष में एक ढंग की बात भी सरकार नहीं बोल सकी। कमलनाथ ने कहा कि बजट में युवाओं, महिलाओं, बेरोजगारों, किसानों और जवानों के लिए कुछ भी नहीं है। सरकार ने देश के आर्थिक विकास का कोई खाका पेश नहीं किया है और जो बातें कही हैं, वह 15 और 20 साल दूर की बातें हैं। यह बजट नहीं है, सिर्फ एक झुनझुना है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 February 2024

bhopal, Air services ,Chief Minister Dr. Yadav

भोपाल। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा है कि यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में हवाई सेवाओं का लगातार विस्तार हो रहा है। अहमदाबाद-ग्वालियर हवाई सेवा से गुजरात से व्यापारिक रिश्ता बनाने में ग्वालियर महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। केन्द्रीय नागरिक उड्डयन एवं इस्पात मंत्री ज्योतिरादित्यसिंधिया के सहयोग से हम बाबा महाकाल की नगरी उज्जैन में भी एयरपोर्ट की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए प्रयासरत हैं। उनके नेतृत्व में उड्डयन के क्षेत्र में देश को नई गति मिली है। मध्यप्रदेश को भी नई उड़ानें मिल रही हैं। बैंगलोर के बाद अहमदाबाद केलिए मिली हवाई सुविधा प्रदेश के पर्यटन और संस्कृति को बढ़ाने में मील का पत्थर साबित होगी।     मुख्यमंत्री डॉ. यादव गुरुवार को अकासा एयर फ्लाइट की ग्वालियर-अहमदाबाद विमान सेवा के उद्घाटन कार्यक्रम में मुरैना से वर्चुअली शामिल हुए। मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने प्रदेश को मिली सौगात के लिए सभी को शुभकामनाएं दीं। कार्यक्रम में केन्द्रीय नागरिक उड्डयन एवं इस्पात मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री जनरल डॉ. वी.के. सिंह (सेवानिवृत्त) नई दिल्ली से वर्चुअली जुड़े। ग्वालियर हवाई अड्डे पर हुए उद्घाटन कार्यक्रम में ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर तथा सामाजिक न्याय एवं दिव्यांगजन कल्याण, उद्यानिकी तथा खाद्य प्रसंस्करण मंत्री नारायण सिंह कुशवाह तथा विधायकगण उपस्थित थे।     दूरस्थ अंचलों में टूरिज्म विकसित करने के लिए निजी निवेश से वायुसेना का विस्तार किया जाएगा मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा कि प्रदेश में 26 हवाई पट्टियां हैं, जिनमें से 22 राज्य शासन की तथा 4 निजी क्षेत्र की हैं। हमारा प्रयास है कि संभाग स्तर के बाद सभी जिलों में भी हवाई पट्टियां हों और इस दिशा में हम केन्द्र सरकार के सहयोग से आगे बढ़ेंगे। दतिया और रीवा में हवाई अड्डा विकसित करने की दिशा में राज्य सरकार ने कदम बढ़ाए हैं। इसके साथ ही उज्जैन में केन्द्र शासन के सहयोग से एयरपोर्ट विकसित किया जाएगा, इससे देश विदेश से आने वाले यात्रियों को सुविधा मिलेगी। एयर एम्बुलेंस की सुविधा उपलब्ध कराने एवं प्रदेश के दूरस्थ अंचलों में पर्यटन को विकसित करने में भी हवाई सेवा महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकती है। अत: एविएशन और टूरिज्म को जोड़ते हुए निजी निवेश को आकर्षित करने की दिशा में भी केन्द्र सरकार के सहयोग से कदम बढ़ाए जाएंगे।     ग्वालियर की देश के सात शहरों से एयर कनेक्टिविटी हुई है स्थापित - केन्द्रीय मंत्री सिंधिया केन्द्रीय नागरिक उड्डयन एवं इस्पात मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि मुख्यमंत्री डॉ. यादव की सहजता, कर्मठता और प्रगति तथा विकास के प्रति उनकी संकल्पबद्धता से मध्यप्रदेश में नया दौर आरंभ हुआ है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की हवाई चप्पल पहनने वाले को हवाई यात्रा की सुविधा उपलब्ध कराने की मंशा के अनुरूप देश में आम आदमी को हवाई यात्रा सुविधा का लाभ देने के लिए निरंतर कार्य किया जा रहा है। इसी क्रम में ग्वालियर अब देश के सात प्रमुख शहरों क्रमश: बैंगलोर, दिल्ली, हैदराबाद, इंदौर, अहमदाबाद, मुम्बई और अयोध्या से हवाई मार्ग से जुड़ा है। उन्होंने अकासा एयर लाइंस को ग्वालियर-अहमदाबाद सेक्टर में हवाई सेवा आरंभ करने के लिए शुभकामनाएं दीं। ग्वालियर हवाई अड्डे पर मौजूद विमान को वर्चुअली हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 February 2024

bhopal,  National Education Policy, Governor Patel

भोपाल। राज्यपाल मंगुभाई पटेल ने कहा है कि विश्वविद्यालय श्रेष्ठ मानव का विकास करे। राष्ट्रीय शिक्षा नीति का उद्देश्य ज्ञान के विस्तार के साथ ही श्रेष्ठ मानव तैयार करना है। उन्होंने विश्वविद्यालयों से अपेक्षा की है कि उच्च शिक्षा में विद्यार्थियों को ज्ञान, विज्ञान के साथ ही नैतिक मूल्यों, सांस्कृतिक परम्पराओं, संस्कारों और व्यवहारिक जीवन के गुणों को भी रोपित करे। यह बात राज्यपाल पटेल ने बुधवार को राजभवन के सांदीपनि सभागार में आयोजित विश्वविद्यालय समन्वय समिति की 101 वीं बैठक को संबोधित करते हुए कही। इस अवसर पर उच्च शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार भी मौजूद थे।     राज्यपाल पटेल ने कहा कि विश्वविद्यालयीन पाठ्यक्रमों में मानवीय मूल्यों का समावेशन जरूरी है। शिक्षा का अंतिम उद्देश्य समर्पित, संवेदनशील और कर्मठ नागरिक बनाना है। यह समझना जरूरी है कि मात्र ज्ञान, विज्ञान और प्रौद्योगिकी संबंधी विकास समग्र शिक्षा नहीं है। विद्यार्थियों में सामाजिक समरसता, पर्यावरणीय चेतना और महिला सशक्तिकरण जैसे सामाजिक सरोकारों के प्रति सजगता और सक्रियता का होना भी जरूरी है। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालयों का दायित्व है कि विद्यार्थियों को हमारी गौरवशाली सांस्कृतिक परम्पराओं और विरासत के संस्कारों से दीक्षित करे ताकि विद्यार्थी भावी जीवन में हमारी संस्कृति की जड़ों से जुड़े रह कर, विभिन्न क्षेत्रों में प्रगति करे।     पटेल ने कहा कि विश्वविद्यालयों में सामान्यतः विद्यार्थी 4 से 5 वर्ष अध्ययन करते है। इस अवधि में विद्यार्थियों के व्यक्तित्व विकास में विश्वविद्यालय की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण है। समाज के वंचित वर्गों के कल्याण, सामाजिक सरोकारों में सहभागिता, समाज और राष्ट्र के प्रति सेवा की भावना और संवेदनशीलता के गुणों से विश्वविद्यालय द्वारा विद्यार्थियों को संस्कारित किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि संवेदनशीलता मानव की प्रकृति का मूलभूत तत्व है, आवश्यकता उसे जगाने की है। विश्वविद्यालय युवाओं में माता-पिता के प्रति श्रद्धा और सम्मान के भाव उत्पन्न करने के प्रयास करे। राज्यपाल पटेल ने कहा कि जीवन के सभी सुखों का आधार अच्छा स्वास्थ्य है। जरूरी है कि विद्यार्थियों में पौष्टिक खान-पान की प्रवृत्तियों को विकसित किया जाये। उन्हें श्रीअन्न के सेवन, व्यायाम और नियमित जीवन शैली के अनुपालन के लिए प्रोत्साहित करे।     बैठक में उच्च शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार ने विश्वविद्यालयों में रोजगार परक पाठ्यक्रमों के संचालन के संबंध में समन्वय समिति के समक्ष प्रस्तुत प्रस्ताव पर उपसमिति के माध्यम से विचार कराये जाने की जरूरत बताई। बैठक में तय किया गया कि समस्त निजी एवं शासकीय विश्वविद्यालय यू.जी.सी. के 12-बी में पंजीयन कराये। सत्र 2024-25 के लिये पात्र विश्वविद्यालय नैक ग्रेडिंग के लिए आवेदन कर दे। नवीन स्थापित विश्वविद्यालय निर्धारित अवधि 6 वर्ष पूर्ण होने के एक वर्ष में अनिवार्यत: आवेदन प्रस्तुत कर दे। बैठक में 100 वीं समन्वय समिति बैठक की कार्यवाही विवरण की पुष्टि की गई। इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव उच्च शिक्षा के. सी. गुप्ता, राज्यपाल के प्रमुख सचिव संजय शुक्ला, उच्च शिक्षा आयुक्त निशांत वरवड़े, शासकीय और निजी विश्वविद्यालयों के कुलपति मौजूद रहे।                                    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 January 2024

bhopal, PM Modi, Parvati-Kalisindh-Chambal link project

भोपाल। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव की अध्यक्षता में बुधवार को मंत्रिपरिषद की बैठक मंत्रालय में वंदे मातरम् गान के साथ आरंभ हुई। मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने मंत्रिपरिषद की बैठक से पहले अपने संबोधन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पार्वती-कालीसिंध-चंबल लिंक परियोजना के लिए धन्यवाद दिया तथा प्रदेश को 10 हजार 405 करोड़ की सड़क परियोजनाओं की सौगात देने के लिए केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी का आभार माना। मंत्रिपरिषद के सदस्यों ने मेजें थपथपाकर अभिवादन किया।   मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा कि लगभग दो दशक से लंबित पार्वती- कालीसिंध- चंबल लिंक परियोजना, प्रधानमंत्री मोदी की पहल से अब मूर्त रूप ले सकेगी। इससे मध्य प्रदेश के मालवा और चंबल क्षेत्र के 12 जिले और पूर्वी राजस्थान के 13 जिले लाभान्वित होंगे, इन क्षेत्रों में पेयजल की उपलब्धता बढ़ेगी तथा सिंचाई और औद्योगिक उपयोग के लिए भी पानी उपलब्ध होगा। उन्होंने जानकारी दी की 75000 करोड़ की इस परियोजना में राज्यांश मात्र 10% है, 90% राशि केंद्र शासन द्वारा उपलब्ध कराई जाएगी। डॉ. यादव ने कहा कि केन-बेतवा लिंक परियोजना का भूमि पूजन फरवरी 2024 में होगा।   मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा कि केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री गडकरी द्वारा दी गई राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं की सौगात से प्रदेश के सभी संभागों में त्वरित और सुगम सड़क परिवहन की सुविधा मिलेगी। मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा कि केंद्रीय मंत्री गडकरी द्वारा कृषि और उद्योग क्षेत्र के संबंध में दिए गए सुझावों के क्रियान्वयन तथा आवश्यक समन्वय के लिए विशेष टास्क फोर्स गठित किया जाएगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 January 2024

khandwa,  overloaded dumper ,entered the house

खंडवा। खंडवा में मंगलवार देर रात एक तेज रफ्तार ओवरलोड डंपर अनियंत्रित होकर सड़क से नीचे उतर कर एक मकान में घुस गया। घटना के वक्त अंदर सो रहा परिवार की जान बाल बाल बच गई। हादसे में एक मकान पुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया जबकि दो अन्य मकान में मामूली क्षति हुई है। गनीमत रही कि कोई जनहानि नहीं हुई है। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपित डंपर चालक को गिरफ्तार कर लिया है। हादसे के समय चालक शराब के नशे में था और तेज रफ्तार से वाहन चला रहा था, जिसके चलते हादसा हुआ। जानकारी अनुसार घटना मंगलवार देर रात करीब एक बजे की है। इस दौरान मूंदी में बस स्टैंड के पास खंडवा-पुनासा रोड पर सिंगाजी ताप विद्युत परियोजना से राखड़ लेकर खंडवा की ओर जा रहा ट्रक आरजे 09 जीई 4055 अचानक अनियंत्रित होकर सड़क से नीचे उतर गया है और यहां बने मकानों को क्षति पहुंचाते हुए पुलिया के पास पलट गया। सड़क किनारे निवास कर रहे प्रताप राजपूत के घर के सामने लगी लोहे की पाइप और मनोहर नाथ महाराज के घर का अगला हिस्सा टूटा है। रहवासियों के मुताबिक, काफी नुकसान हुआ है। ऊपर के टीनशेड, ओटले टूट गए है। पूरा परिवार सो रहा था, गनीमत रही कि सबकी जान बच गई। इधर, सूचना मिलते ही मूंदी थाने की डायल 100 और बल मौके पर पहुंच गया था। जिसके बाद ड्राइवर को हिरासत में ले लिया है। बताया जा रहा है कि ड्राइवर शराब पीकर वाहन चला रहा था। पुलिस मामला दर्ज कर जांच में जुट गई है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 January 2024

bhopal, Jabalpur ,Union Minister Gadkari

भोपाल। केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि जबलपुर मध्यप्रदेश का ग्रोथ इंजन है। यह पर्यटन की दृष्टि से महत्वपूर्ण है। साथ ही शिक्षा के क्षेत्र में जबलपुर का नाम पूरे देश में जाना जाता है। जबलपुर में सड़कों-पुलों के निर्माण और सामाजिक, सांस्कृतिक तथा आर्थिक विकास के लिये सरकार कार्य कर रही है।   केन्द्रीय मंत्री गडकरी मंगलवार को जबलपुर में वेटनरी कॉलेज ग्राउंड में विभिन्न राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सड़कों के निर्माण से उद्योगों का विकास होता है। पर्यटन में वृद्धि होती है। कृषि एक्सपोर्ट बढ़ता है और इस तरह सड़क प्रदेश के विकास की धुरी बन जाती है।   गडकरी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत का विजन, दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था और पांच ट्रिलियन इकोनॉमी बनाने का ध्येय गांव और किसानों के विकास से सीधा जुड़ा है। स्मार्ट शहर के साथ स्मार्ट विलेज के निर्माण से आत्म निर्भर भारत का निर्माण हो सकेगा।   उन्होंने कहा कि प्रदेश में राष्ट्रीय राजमार्ग और रिंग रोड निर्माण के दौरान जमीन से खोदी गई मिट्टी और मुरूम की जगह पर पानी का स्टोरेज टैंक और तालाब बनाया जा सकता है। इससे वाटर कंजर्वेशन तो होगा साथ ही किसानों को सिंचाई के लिए पानी भी उपलब्ध होगा। हर गांव की 75 फीसदी जमीन सिंचित होगी तो किसान और गांव समृद्ध होंगे और कृषकों की आमदनी बढ़ेगी।   किसान आगे बढ़कर बने ऊर्जा दाता केंद्रीय मंत्री गडकरी ने कहा कि मध्यप्रदेश का किसान, ग्रीन हाइड्रोजन, बायो एविएशन फ्यूल, बायो सीएनजी और बायो एलएनजी निर्माण की दिशा में कार्य करके अन्नदाता से आगे बढ़कर ऊर्जा दाता बन सकता है। कृषि से उपजे बायोमास को एनर्जी क्रॉप्स में परिवर्तित करें। उन्होंने पानीपत में इंडियन ऑयल के बिटुमिन प्लांट का उदाहरण देते हुए बताया कि प्रदेश में पराली से एक लाख लीटर एथेनॉल, 1.5 टन बिटुमिन और 75 हजार टन हवाई ईंधन तैयार किया जाता है। यह उत्पाद हवाई जहाज के ईंधन के रूप में उपयोग किए जा सकते हैं। इसे सस्टेनेबल एवियशन फ्यूल कहा गया है। दो साल पहले 26 जनवरी के कार्यक्रम में फाइटर जेट और हेलीकॉप्टर में बायो फ्यूल का उपयोग किया गया था।   ऊर्जा निर्यात करने वाला देश बनेगा भारत गडकरी ने कहा कि कोयले से मिथनोल बनाया जाता हैं। डीजल में 15 फीसदी मेथेनॉल मिलाकर बेंगलुरु में 25 बसें चलाने का प्रयोग सफल रहा है। मप्र में कोयले के प्रचुर भंडार उलब्ध हैं। मिथेनॉल की दर 22 रुपए लीटर और डीजल की 93 लीटर है। इस तरह मिथनॉल डीजल की अपेक्षा सस्ता ईंधन है। कोल माइन में मिथनॉल से चलने वाली मशीनें और ट्रक उपयोग करें। इन सब चीजों से देश में फॉसिल फ्यूल्स का आयात में कमी आयेगी। डीजल और पेट्रोल के उपयोग से होने वाला प्रदूषण कम होगा। मध्यप्रदेश में ऐसा प्रयोग करने और इस दिशा में अग्रणी होने की क्षमता है। देश का किसान देश के लिए ऊर्जा तैयार करेगा और देश ऊर्जा आयात करने वाला नहीं बल्कि ऊर्जा निर्यात करने वाला देश बनेगा। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश में फसल, फल सहित कृषि उत्पादों का प्रचुर मात्रा में उत्पादन होता है। राष्ट्रीय राजमार्ग और रिंग रोड से लगी सरकारी जमीन पर प्री कूलिंग प्लांट, कोल्ड स्टोरेज और लॉजिस्टिक पार्क आदि का विकास किया जा सकता है। इससे प्रदेश की सब्जी, फल और अन्य उत्पाद दुनिया के दूसरे देशों तक जाएंगे। इससे किसानों को फसल का सही दाम मिलेगा और क्षेत्र का विकास होगा। उन्होंने प्रदेश के विकास में उनके मंत्रालय से हर संभव मदद का आश्वासन भी दिया। केंद्रीय मंत्री गडकरी ने जबलपुर में 2367 करोड़ रुपये की लागत से 226 किलोमीटर लम्बी नौ राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं का शिलान्यास किया। इन परियोजनाओं से महाकौशल क्षेत्र के गेंहॅूं और धान कृषि व्यापार को बढ़ावा मिलेगा, प्रसिद्ध तीर्थ स्थलों तक कनेक्टिविटी आसान होगी, कटनी के कोयला खदान उद्योग को लाभ मिलेगा। प्रसिद्ध पर्यटन स्थल खजुराहो, ओरछा, राष्ट्रीय पेंच टाइगर कॉरीडोर तक कनेक्टिविटी आसान होगी, बुधनी टेक्सटाइल इंडस्ट्रीज और वुड क्राफ्ट व्यापार को लाभ मिलेगा साथ ही मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, गुजरात और दिल्ली राज्यों के बीच व्यावसायिक एवं नागरिक यातायात सुगम होगा। कार्यक्रम को केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री डॉ. वीरेन्द्र कुमार, केंद्रीय इस्पात राज्य मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते, मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव, लोक निर्माण मंत्री राकेश सिंह, पंचायत और ग्रामीण विकास मंत्री प्रहलाद पटेल, सांसद वीडी शर्मा ने भी किया। इस अवसर पर राज्यसभा सांसद सुमित्रा बाल्मीकि, पर्यटन निगम के अध्यक्ष विनोद गोंटिया सहित जनप्रतिनिधि, प्रशासनिक अधिकारी और बड़ी संख्या में आमजन उपस्थित रहे। केंद्रीय मंत्री गडकरी ने भारत को 2047 तक आत्मनिर्भर और विकसित राष्ट्र बनाने के सपने को साकार करने के लिए सभी को विकसित भारत संकल्प यात्रा की शपथ दिलवाई। उन्होंने मुख्यमंत्री डॉ. यादव के साथ कार्यक्रम के दौरान विकसित भारत संकल्प यात्रा के विभिन्न योजनाओं की हितग्राहियों को प्रतीकात्मक हितलाभ भी वितरित किए।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 January 2024

ujjain, Four accused arrested ,BJP leader

उज्जैन। भाजपा नेता और उनकी पत्नी की हत्या के आरोप में मंगलवार को पुलिस ने 4 लोगों को पकड़ा है। इनमें 1 नाबालिग है। आरोपित भाजपा नेता के गांव के ही हैं। घटना नरवर में देवास रोड स्थित पिपलोदा गांव की है। 27 जनवरी की सुबह भाजपा नेता रामनिवास कुमावत (70) और उनकी पत्नी मुन्नी कुमावत (65) के शव घर में मिले थे। पुलिस शुरुआत से लूटपाट में मर्डर की आशंका जता रही थी। एसपी सचिन शर्मा ने बताया कि गांव के ही होने की वजह से आरोपितों को पता था कि दंपती घर में अकेले रहते हैं। परिवार गांव में सबसे संपन्न है। घर में कैश और जेवर भी हैं। आरोपितों ने चोरी का प्लान बनाया था। 26 जनवरी की शाम सभी भाजपा नेता के घर के आंगन में छिपकर बैठ गए। बाद में खिड़की की ग्रिल तोड़कर घर के अंदर दाखिल हो गए, लेकिन, भाजपा नेता और उनकी पत्नी ने इन्हें देख लिया। चारों को वे जानते थे। इसी वजह से आरोपितों ने उन्हें मार डाला। आरोपितों से पूछताछ की जा रही है। पुलिस ने इन्हें पकड़ा अल्फेज (19) पुत्र लियाकत शाह, आरिफ (22) पुत्र मक्कू उर्फ मेहरबान शाह, विशाल पुत्र मिश्रीलाल बागवान एक आरोपित नाबालिग। ये सभी उसी गांव के रहने वाले हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 January 2024

bhopal, MP is in Modi

भोपाल। ’मोदी के मन में एमपी’ सिर्फ एक नारा नहीं है, बल्कि यह एक यथार्थ है। इसी कारण मध्यप्रदेश को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का स्नेह और आशीर्वाद विकास परियोजनाओं के रूप में लगातार मिल रहा है। बीते 9 सालों में प्रदेश की अधोसंरचना में हुआ कल्पनातीत विकास इसी का प्रमाण है। प्रदेश जिस तेजी के साथ विकास के पायदान चढ़ रहा है, उससे यह साबित हो गया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मध्यप्रदेश को देश के विकसित राज्यों में शामिल करने में कोई कसर बाकी नहीं रखना चाहते। यह बात भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने जबलपुर एवं भोपाल में सड़क परियोजनाओं के शुभारंभ तथा लोकार्पण एवं मध्यप्रदेश-राजस्थान व केंद्र सरकार के बीच पार्वती-कालीसिंध-चंबल लिंक परियोजना के संबंध में हुए त्रिपक्षीय समझौते पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कही। शर्मा ने इन विकास परियोजनाओं के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी, केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्रसिंह शेखावत, प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव एवं राजस्थान के मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा के प्रति आभार जताया।   विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने मंगलवार को जबलपुर के वेटेरेनरी ग्राउंड में 2 हजार 367 करोड़ रुपए की 226 किमी की 9 राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया है, उनसे महाकौशल और बुंदेलखंड समेत पूरे प्रदेश में कृषि तथा व्यापार को बढ़ावा मिलेगा और विभिन्न तीर्थस्थलों की कनेक्टिविटी बढ़ेगी। वीडी शर्मा ने कहा कि केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने टीकमगढ़-झांसी सड़क पर स्थित जामनी नदी पर 43 करोड़ की लागत वाले उच्च स्तरीय पुल, चांदिया घाट से कटनी बायपास तक दो लेन (पेव्ड शोल्डर के साथ) सड़क उन्नयन कार्य, बमीठा से खजुराहो मार्ग का चार लेन चौड़ीकरण कार्य का लोकार्पण किया है। इसके साथ ही उन्होंने गुलगंज बायपास के बरना नदी तक,दो लेन (पेव्ड शोल्डर के साथ) सड़क उन्नयन कार्य, बरना नदी से केन नदी तक दो लेन (पेव्ड शोल्डर के साथ)सड़क उन्नयन कार्य, शहडोल से सागर टोला तक दो लेन (पेव्ड शोल्डर के साथ) सड़क उन्नयन कार्य, ललितपुर-सागर-लखनादौन खंड में कुल 23 पुलों और सर्विस रोड का निर्माण, सुकतरा,कुरई एवं खवासा में कुल 3 फुटओवर बिज्र का निर्माण, घुनई एवं बंजारी घाटी पर 2 ब्लैक स्पॉट के सुधार कार्य का शिलान्यास किया है। इन परियोजनाओं से महाकोशल क्षेत्र में गेहूं और धान की कृषि तथा व्यापार को बढ़ावा मिलेगा। विभिन्न अंचलों में स्थित प्रदेश के प्रसिद्ध तीर्थ स्थलों की कनेक्टिविटी में सुधार होगा। कटनी के कोयला उद्योग को लाभ होगा तथा प्रसिद्ध पर्यटन स्थल खजुराहो,ओरछा, राष्ट्रीय पेंच टाइगर कॉरिडोर तक आसान कनेक्टिविटी होगी।   प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने राजधानी के लाल परेड ग्राउंड पर आयोजित कार्यक्रम में 8038 करोड़ रुपये लागत वाली 498 किलोमीटर लंबी 15 नेशनल हाइवे परियोजनाओं के शिलान्यास पर केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी का आभार जताया। उन्होंने कहा कि इन परियोजनाओं से राजधानी भोपाल, आसपास के क्षेत्रों में तो परिवहन सुविधाओं का विकास होगा ही, महाराष्ट्र, उत्तप्रदेश, राजस्थान और गुजरात से मध्यप्रदेश के सड़क संपर्क में भी सुधार होगा।   शर्मा ने कहा कि मध्यप्रदेश और राजस्थान के बीच पार्वती-कालीसिंध-चंबल लिंक परियोजना बीते 20 वर्षों से लंबित थी। लेकिन रविवार को मध्यप्रदेश, राजस्थान और केंद्रीय जलशक्ति मंत्रालय के बीच जो त्रिपक्षीय समझौता हुआ है, उससे एक बार फिर यह साबित हो गया है कि मोदी की गारंटी हर गारंटी के पूरे होने की गारंटी है। उन्होंने कहा कि इस समझौते से राजस्थान के अलावा मध्यप्रदेश के चंबल और मालवा के 13 जिलों की करीब 1.5 करोड़ जनता को सुगमता से पानी मिलेगा और प्रदेश की करीब तीन लाख हेक्टेयर जमीन पर सिंचाई हो सकेगी। इसके साथ ही चंबल और मालवा अंचलों के धार्मिक और पर्यटन केंद्र भी विकसित होंगे।   प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने परिवहन सुविधाओं के विकास और विस्तार के काम करते हुए यह दिखा दिया है कि किसी भी देश के विकास में सड़कों की क्या भूमिका होती है। शर्मा ने कहा कि गडकरी के मार्गदर्शन में पूरी की गई विकास परियोजनाएं सारी दुनिया में इस बात का उदाहरण प्रस्तुत कर रही हैं कि किसी काम को पूरी गति और शक्ति के साथ क्वालिटी से समझौता किए बिना किस तरह पूरा किया जा सकता है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 January 2024

neemuch, CRPF jawan ,commits suicide

नीमच। जिले के सीआरपीएफ परिसर में एक जवान ने मंगलवार सुबह बैरक के बाहर सर्विस राइफल से खुद को गाेली मार ली। साथी उसे लेकर तुरंत जिला अस्पताल पहुंचे, जहां डॉक्टर ने जांच उपरांत उसे मृत घोषित कर दिया। शव को पोस्टमार्टम के बाद अंतिम संस्कार के लिए पंजाब भेज दिया है। बताया जा रहा है कि मृतक जवान एक दिन पहले ही घर से छुट्टी खत्म कर लौटा था। फिलहाल पुलिस मामला दर्ज कर पड़ताल में जुटी है।     जानकारी अनुसार सीआरपीएफ जवान सौरभ पुत्र तरसीम उम्र 26 वर्ष पंजाब के होशियारपुर जिले का रहने वाला था और नीचम में तैनात था। मंगलवार अल सुबह उसने सीआरपीएफ परिसर स्थित अपने बैरक के बाहर सर्विस राइफल से खुद को मार ली। गाेली की आवाज सुनकर साथी मौके पर पहुंचे तो वहां जवान को खून से लथपथ पड़ा देखा। परिसर में मौजूद साथी तुरंत उसे लेकर जिला अस्पताल पहुंचे जहां डॉक्टर ने जांच उपरांत जवान को मृत घोषित कर दिया। सूचना के बाद पुलिस भी मौके पर पहुंची। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि जवान ने आत्महत्या से पहले कुछ मैसेज अपने भाई और अन्य परिजनों को किए थे, जिसमें पैसे के लेन-देन की बात सामने आई है। फिलहाल पुलिस जांच कर रही है। जवान के शव को पोस्टमार्टम के बाद अंतिम संस्कार के लिए पंजाब के होशियारपुर जिले के उसके पैतृक गांव रवाना कर दिया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 January 2024

bhopal,  Party issues notice , Congress leaders

भोपाल। प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में सोमवार को हुई अनुशासनहीनता को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी ने गंभीरता से लेते हुए सख्त निर्णय लिया है। मप्र कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग के अध्यक्ष प्रदीप अहिरवार और प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता शहरयार खान के बीच हुये विवाद के कारण पार्टी की छवि धूमिल हुई है। जीतू पटवारी ने दोनों नेताओं के कदाचरण और अनुशासनहीनता को गंभीरता से लेते हुए कारण बताओ नोटिस जारी कर 7 दिवस के अंदर स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने के लिए कहा है।     जीतू पटवारी ने स्पष्ट तौर पर कहा कि 7 दिन के भीतर जबाव नहीं मिलने अथवा संतुष्टीपूर्ण स्पष्टीकरण नहीं मिलने पर पार्टी द्वारा दोनों नेताओं के विरूद्ध अनुशासनहीनता की कार्यवाही की जायेगी। प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष संगठन प्रभारी राजीव सिंह ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी के निर्देश पर आदेश जारी करते हुए बताया कि प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता शहरयार खान को तत्काल प्रभाव से प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता के पद से पदमुक्त कर दिया गया है। जीतू पटवारी कहा कि पार्टी में अनुशासनहीनता करने वाले को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जायेगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 January 2024

P K kA FUNDDA  , gandhi ,mahatma gandhi ,  praveen kakkar

(प्रवीण कक्कड़)  आज महात्मा गांधी की पुण्यतिथि है। गांधीजी दुनिया के ऐसे अनोखे राजनेता हैं, जिन्हें लोग नेता से बढ़कर संत के रूप में याद करते हैं। गांधी जी के सिद्धांतों ने विश्व को सत्य और अहिंसा का आधुनिक दर्शन दिया है। मार्टिन लूथर किंग जूनियर से लेकर बराक ओबामा तक उन्हें आदर्श मानते हैं, भारत ही नहीं पूरे विश्व में न केवल उनके विचारों की व्यापक स्वीकार्यता है, बल्कि उनके सिद्धांतों को प्रासंगिक मानकर उन पर चलने का प्रयास किया जा रहा है। जब भी महात्मा गांधी का नाम लिया जाता है तब सबसे पहले जहन में दो शब्द आते हैं वो हैं सत्य और अहिंसा। गांधी जी ने सत्य के प्रति अडिग रहकर अपना पूरा जीवन राष्ट्र को समर्पित कर दिया, उन्होंने अपने विचारों से न केवल भारत को आजादी दिलायी, बल्कि समाज में अनेक सुधार भी किए। इसी तरह गांधीजी के अहिंसा का आधुनिक दर्शन दिया। विश्व में पहले किसी विरोध का मतलब होता था हिंसक लड़ाई लेकिन महात्मा गांधी के अहिंसा दर्शन ने इस सोच को बदल दिया। इसी पर लोकतंत्र की नींव रखी गई और इस बात को साबित किया गया कि अब देश रूल ऑफ़ लाॅ से चलेगा न कि रूल ऑफ़ साॅर्ड से। यानी आधुनिक सरकार तलवार के जोर से नहीं कानून के जोर से चलती है। तलवार का मुकाबला तलवार से यानी हिंसा का मुकाबला हिंसा से किया जा सकता है लेकिन कानून तो आम सहमति से ही बदले जा सकते हैं, इसके लिए जन सत्याग्रह यानी अहिंसक आंदोलन ही एकमात्र सास्ता है।  गांधीजी के सत्य, अहिंसा, स्वराज और सत्याग्रह के विचार शाश्वत हैं। इसका सबसे बड़ा कारण है कि उन्होंने जमीनी तौर पर अपने विचारों का परीक्षण किया और जीवन में सफलता अर्जित की। महात्मा गांधी के अहिंसा के आधुनिक दर्शन से पूरी दुनिया ने प्रेरणा ली। भारत की आजादी के बाद अधिकांश देशों ने इसी तरह के आंदोलन का सहारा लिया। विश्व में हुए अहिंसक आंदोलनों को सफलता भी मिली।  गांधी जी ने अपना जीवन सत्य या सच्चाई की व्यापक खोज में समर्पित कर दिया। उन्होंने इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए अपनी स्वयं की गलतियों और खुद पर प्रयोग करते हुए सीखने की कोशिश की। उन्होंने अपनी आत्मकथा को सत्य के प्रयोग का नाम दिया। उन्होंने अपनी खोज और प्रयासों से सत्य का नया दर्शन दिया। गांधी जी ने कहा कि सबसे महत्वपूर्ण लड़ाई लड़ने के लिए अपने भय और असुरक्षा जैसे तत्वों पर विजय पाना है। गांधीजी ने अपने विचारों को सबसे पहले उस समय संक्षेप में व्य‍क्त किया जब उन्होंने कहा भगवान ही सत्य है, बाद में उन्होंने अपने इस कथन को सत्य ही भगवान है में बदल दिया। इस प्रकार सत्य में गांधी के दर्शन है "परमेश्वर"। यही कारण है कि आज भारत ही नहीं दुनिया के सभी देश महात्मा गांधी को आदर्श और उनके सिद्धांतों को प्रासंगिक मानते हैं। आज हमें महात्मा गांधी के प्रति श्रद्धांजलि व्यक्त करने के साथ ही यह भी विचार करना चाहिए कि कैसे हम उनके आदर्शों को अपने जीवन में उतारें। कैसे सत्य के सहारे हम अपनी बाधाओं का मुकाबला करें। अहिंसा के जरिए हम अपने लक्ष्यों की ओर आगे बढ़े और मजबूत चरित्र निर्माण के साथ पूरे समाज को एक सूत्र में बांधते हुए समभाव के साथ राष्ट्र निर्माण करें। सत्य और अहिंसा गांधी जी के दो सिद्धांत हैं। यही वजह है कि 15 जून 2007 को यूनाइटिड नेशनल असेंबली ने 2 अक्टूबर को अंतरराष्ट्रीय अहिंसा दिवस मनाने का फैसला किया।   ऐसे मिली राष्ट्रपिता और महात्मा की उपाधि  महात्मा गांधी के राष्ट्रपिता कहे जाने के पीछे भी एक कहानी है। महात्मा गांधी को पहली बार सुभाष चंद्र बोस ने राष्ट्रपिता कहकर संबोधित किया था। 4 जून 1944 को सिंगापुर रेडिया से एक संदेश प्रसारित करते हुए राष्ट्रपिता महात्मा गांधी कहा था। इसके बाद कवि और नोबेल पुरस्कार विजेता रवींद्रनाथ टैगोर ने गांधीजी को महात्मा की उपाधि दी थी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 January 2024

bhopal, Students should prepare, Minister Singh

भोपाल । स्कूल शिक्षा मंत्री उदय प्रताप सिंह ने कहा है कि स्कूल की परीक्षा के समय आम तौर पर विद्यार्थी तनाव महसूस करते हैं। इस तनाव को बेहतर समय प्रबंधन के साथ परीक्षा की तैयारी सहजता से नियमित रूप से करें, तो इसको काफी हद तक कम किया जा सकता है। यह बात स्कूल शिक्षा मंत्री सिंह ने सोमवार को भोपाल के सुभाष उत्कृष्ट विद्यालय में परीक्षा पे चर्चा के सातवें संस्करण को संबोधित करते हुए कही। स्कूल शिक्षा मंत्री ने विद्यालय के छात्रों के साथ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के उद्बोधन का सजीव प्रसारण सुना। इस मौके पर प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा रश्मि अरूण शमी, आयुक्त लोक शिक्षण अनुभा श्रीवास्तव एवं विभागीय अधिकारी मौजूद थे।   शिक्षक और अभिभावक मिलकर काम करें स्कूल शिक्षा मंत्री सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने छात्रों की समस्या को समझा और पिछले 6 वर्षों से इस विषय पर लगातार संवाद किया। अब इसके बेहतर परिणाम भी सामने आये हैं। उन्होंने कहा कि शिक्षक और अभिभावक मिलकर छात्रों से संवाद करें, तो इसे काफी हद तक कम किया जा सकता है। उन्होंने विद्यार्थियों से दबाव से बाहर आने की क्षमता विकसित करने पर भी जोर दिया। स्कूल शिक्षा मंत्री ने कहा कि परीक्षा अंतिम अवसर नहीं हुआ करती है। कारणवश यदि असफल हो भी जाएं, तो निरंतर प्रयास के अभ्यास को नहीं छोड़ा जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि हरविद्यार्थी को पढ़ाई के साथ अपनी रूचि के साथ भी जुड़े रहना चाहिए। उन्होंने इस दौरान व्यायाम, संतुलित आहार के साथ जीवनचर्या पर भी विशेष ध्यान देने की बात कही। कार्यक्रम के प्रारंभ में आयुक्त लोक शिक्षण श्रीमती अनुभा श्रीवास्तव ने स्वागत भाषण दिया।   प्रधानमंत्री का उद्बोधन परीक्षा पे चर्चा संस्करण 7 में नई दिल्ली के भारत मण्डपम से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देशभर के विद्यार्थियों से संवाद किया। उन्होंने बच्चों के सवालों को सुना और उनका जवाब दिया। मोदी ने कहा कि शिक्षक का काम केवल जॉब करना नहीं है, बल्कि जिंदगी सवारने का है। इस वजह से यह महत्वपूर्ण कार्यक्रम उन्होंने विद्यार्थियों से तकनीक के उपयोग के साथ-साथ लिखने का अभ्यास निरंतर करने को भी कहा।   भोपाल के बच्चों की रही भागीदारी नई दिल्ली में हुए परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम में भोपाल उत्कृष्ट विद्यालय की छात्रा वंशिका महेश्वरी, छात्र तीर्थ सोनी और शिक्षिका योगिता नायक शामिल हुई।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 January 2024

dindori, Husband had murdered ,SDM Nisha Napit

डिंडौरी। जिले के शहपुरा में पदस्थ महिला एसडीएम निशा नापित की संदिग्ध मौत की गुत्थी पुलिस ने घटना के 24 घंटों के अंदर ही सुलझा ली है। पुलिस के अनुसार एसडीएम की हत्या उनके पति ने ही तकिए से मुंह दबाकर की थी।   बालाघाट रेंज के आईजी पुलिस मुकेश श्रीवास्तव ने बताया कि एसडीएम निशा नापित की हत्या उनके पति मनीष शर्मा ने तकिए से मुंह दबाकर की है। सबूतों को छिपाने के लिए पति ने घटना के बाद कपड़ों को वाशिंग मशीन में धुलने डाल दिया और सुखाया भी है। आईजी के मुताबिक पुलिस को मिले सबूत के आधार पर पति मनीष शर्मा (45) के खिलाफ कई धाराओं में केस दर्ज कर हिरासत में ले लिया गया है। गौरतलब है कि एसडीएम निशा नापित की रविवार दोपहर को संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई थी। एसडीएम के पति मनीष शर्मा ने पहले बताया था कि सीने में दर्द उठने के बाद उन्हें अस्पताल लेकर पहुंचे थे। यहां इलाज के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया था। पोस्टमॉर्टम करने वाले डॉक्टर रत्नेश द्विवेदी ने बताया कि निशा को जब अस्पताल लाया गया था, उससे चार-पांच घंटे पहले ही उनकी मौत हो चुकी थी।   दूसरी तरफ एसडीएम निशा नापित की बहन ने आरोप लगाया था कि निशा के पति मनीष शर्मा के दूसरे लोगों से संबंध रहे हैं और वो निशा को पैसों के लिए प्रताड़ित करता था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 January 2024

chatarpur, Tractor-trolley overturned,  girl died

छतरपुर। जिले के बक्सवाहा में सोमवार को ग्रामीणों से भरी एक ट्रैक्टर-ट्रॉली पलट गई। हादसे में 12 साल की बच्ची समेत तीन लोगों की मौत हो गई है। वहीं 12 से ज्यादा लोग घायल हो गए हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार जुझारपुर गांव से करीब 30 लोग ट्रैक्टर में सवार होकर दर्शन के लिए श्री जटाशंकर धाम जा रहे थे। इसी बीच रास्ते में बिजावर के पास बाजना घाटी पर ट्रैक्टर अनियंत्रित होकर पलट गया। जिसके कारण लोग ट्रॉली के नीचे दब गए। हादसे के बाद घटनास्थल पर चीख-पुकार मच गई। ग्रामीणों ने घटना की सूचना पुलिस को दी, जिसके बाद बिजावर एसडीओपी शशांक जैन और थाना प्रभारी जयवंत काकोरिया सहित पुलिस बल मौके पर पहुंचा तथा ग्रामीणों की मदद से राहत और बचाव कार्य शुरू किया। सभी घायलों को उपचार के लिए बिजावर के सिविल अस्पताल भेजा गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 January 2024

bhopal,  Congress free , Vishnudutt Sharma.

भोपाल। विधानसभा चुनाव में हमारे उत्साह से भरे कार्यकर्ता हर बूथ पर जीत का लक्ष्य लेकर मैदान में उतरे और सभी ने चुनाव जीतने के लिए टीम भावना के साथ कड़ी मेहनत की। केंद्र व राज्य सरकारों की जनहितैषी योजनाओं से लोगों के जीवन में बदलाव आए हैं। दुनिया के सबसे लोकप्रिय नेता और हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कड़ी मेहनत, राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का मार्गदर्शन तथा केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की कुशल रणनीति का ही परिणाम है कि विधानसभा चुनाव में हमें ऐतिहासिक जीत मिली है। पार्टी नेतृत्व ने 51 प्रतिशत वोट शेयर का लक्ष्य दिया था और हम हर बूथ पर 49 प्रतिशत वोट हासिल करने में सफल रहे। इस जीत के लिए मैं सभी कार्यकर्ताओं का अभिनंदन करता हूं, हृदय से आभार व्यक्त करता हूं। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने सोमवार को शहडोल में जिला बैठक एवं लोकसभा बैठक को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने लोकसभा चुनाव कार्यालय का उदघाटन भी किया। कार्यकर्ताओं के कान्फिडेंस से बनता है नेताओं का विश्वास   प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि आप लोगों की मेहनत से शहडोल और पूरे मध्यप्रदेश में पार्टी ने ऐतिहासिक जीत हासिल की है, लेकिन चुनाव के पहले तरह-तरह की बातें हो रही थीं। मीडिया, ब्यूरोक्रेटस और अलग-अलग राजनीतिक दल तरह-तरह के दावे कर रहे थे। उस समय मुझसे भी अगर कोई पत्रकार पूछता था, तो मैं यही कहता था कि हम सर्वाधिक सीटें जीतेंगे। वीडी शर्मा ने कहा कि राजनीति के चाणक्य कहे जाने वाले केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी लगातार मध्यप्रदेश के दौरे किए और हर संभाग में बैठकें लीं। ग्वालियर में आयोजित बैठक में उन्होंने कार्यकर्ताओं का जो उत्साह और आत्मविश्वास देखा, उसके आधार पर उन्होंने चुनाव से 15 दिन पहले ही यह कह दिया था कि इस चुनाव में हम संगठन तंत्र की ताकत के बल पर प्रचंड बहुमत हासिल करने जा रहे हैं। नेताओं का कान्फिडेंस कार्यकर्ताओं के विश्वास के आधार पर ही बनता है।   बूथ पर कार्यकर्ताओं की मेहनत से मिले 49 प्रतिशत वोट, 163 सीटें   प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने कहा कि बीते ढाई-तीन सालों में बूथ स्तर पर अनेक कार्यक्रम हुए। बूथ विस्तारक अभियान, बूथ डिजिटाइजेशन, बूथ विजय संकल्प अभियान जैसे इन कार्यक्रमों के माध्यम से प्रत्येक कार्यकर्ता बूथ से जुड़ा और उसके सिर पर बूथ जीतने का भूत सवार हो गया। कार्यकर्ताओं सहित सभी पार्टीजनों के मन में एक ही संकल्प था कि हमें बूथ पर चुनाव लड़ना है और जीतना है। कार्यकर्ताओं की इस मेहनत से ही प्रत्येक बूथ पर हमारा 10 प्रतिशत वोट शेयर बढ़ा और हम 49 प्रतिशत वोट हासिल करने में कामयाब रहे, जो सामान्य बात नहीं है। प्रदेश के चुनावी इतिहास में किसी पार्टी को इतने वोट नहीं मिले। शर्मा ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने इस चुनाव में 163 सीटें हासिल की हैं। इनके अलावा 10 सीटें ऐसी हैं, जिन पर 1 हजार से कम वोटों से हार-जीत हुई है। 101 विधानसभाओं में हमने 50 प्रतिशत से अधिक वोट हासिल किए और 35 विधानसभाओं में 45-50 प्रतिशत हमारा वोट शेयर रहा। वीडी शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विधानसभा चुनाव से पूर्व भोपाल में मेरा बूथ सबसे मजबूत का नारा दिया था और देश भर के बूथ कार्यकर्ताओं से संवाद किया था। उन्होंने कहा था कि अगर बूथ मजबूत है, तो हम मजबूत हैं। इसलिए प्रत्येक कार्यकर्ता कमल के फूल को अपना प्रत्याशी मानकर चुनाव में जुट जाए। इसी भावना से अब हमें लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जुटना है। हमें हर बूथ पर 10 प्रतिशत वोट बढ़ाना है, हर बूथ को मोदी बूथ बनाकर कांग्रेस मुक्त बूथ बनाना है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 January 2024

dindori, deceased SDM ,accused husband

डिंडौरी। जिले के शहपुरा में पदस्थ महिला एसडीएम निशा नापित की अचानक हुई मौत की गुत्थी उलझती जा रही है। उनकी बहन ने आरोप लगाया है कि निशा का पति उसे पैसों के लिए प्रताड़ित करता था। एसडीएम निशा नापित की रविवार दोपहर को संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई थी। उनका पोस्टमॉर्टम करने वाले डॉक्टर रत्नेश द्विवेदी का कहना है कि एसडीएम निशा नापित को जब अस्पताल लाया गया था, उससे चार-पांच घंटे पहले ही उनकी मौत हो चुकी थी। एसडीएम निशा नापित के पति मनीष शर्मा ने पहले पुलिस को बताया था कि सीने में दर्द उठने के बाद उन्हें अस्पताल लेकर पहुंचे। यहां इलाज के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया। पुलिस एसडीएम के पति मनीष शर्मा समेत तीन लोगों से पूछताछ कर रही है। मनीष का कहना है कि अमरूद खाने के बाद मैडम को उल्टी हुई थी। नाक से ब्लड भी आया था। वहीं, एसडीएम की बहन का कहना है कि मनीष के दूसरे लोगों से संबंध हैं। वो निशा को पैसों के लिए प्रताड़ित करता था। एसडीएम निशा नापित की बहन नीलिमा नापित और परिजन देर रात अंबिकापुर से उनके बंगले पर पहुंचे। एसडीएम निशा की बड़ी बहन नीलिमा नापित ने आरोप लगाया है कि मनीष के कई लोगों से संबंध हैं वो पैसे को लेकर निशा को प्रताड़ित करता था। मेरी बहन को कोई बीमारी नहीं थी। सर्दी-जुकाम तो सभी को होता है। मनीष ने कुछ गड़बड़ किया है। एफएसएल टीम को चादर, तकिया और निशा के कपड़े वाशिंग मशीन में मिले हैं। मतलब वो साक्ष्य छिपाने का प्रयास कर रहा है। पुलिस ने सब जब्त कर लिया है। मनीष ने कर्मचारियों को निशा के कमरे तक में नहीं जाने दिया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 January 2024

bhopal, Kamal Nath ,BJP government

भोपाल। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस विधायक कमलनाथ ने किसान आत्महत्या मामले को लेकर एक बार फिर केंद्र की भाजपा सरकार को आड़े हाथों लिया है। कमलनाथ ने सोशल मीडिया एक्स पर पोस्ट करते हुए देश में बढ़ रहे किसानों के आत्महत्या मामले को लेकर सरकार पर निशाना साधा है।   कमलनाथ ने रविवार को सोशल मीडिया एक्स पर ट्वीट कर लिखा केन्द्र सरकार के आँकड़ों के मुताबिक़ वर्ष 2022 में देश में 11290 किसानों ने आत्महत्या की है। वहीं वर्ष 2021 में 10281 किसानों ने अपनी जान दी थी। वर्ष 2021 की तुलना में वर्ष 2022 में किसान आत्महत्या में 3.7 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। एनसीआरबी की रिपोर्ट के मुताबिक़ देश में प्रतिदिन 154 किसान आत्महत्या करते हैं। हमारी अल्पकालिक सरकार ने मध्यप्रदेश के 27 लाख किसानों का कर्जा माफ कर किसान आत्महत्या में अंकुश लगाने में सफलता पाई थी, लेकिन बाद की सरकारों ने कर्जमाफी योजना को बंद कर किसानों का जीवन फिर संकट में डाल दिया। कमलनाथ ने आगे कहा कि मैं हमेशा कहता हूँ कि हमारे देश की अर्थव्यवस्था कृषि आधारित है। जब किसानों की जेब में पैसा होता है, तब ही हाट-बाज़ारों में रौनक़ होती है, क्रयशक्ति बढ़ती है। आज ज़रूरत है कि हम किसानों को सिर्फ़ वोट का ज़रिया नहीं समझकर उनके जीवन स्तर में सुधार के लिये कारगर कदम उठायें और देश को खुशहाल किसान, ख़ुशहाल खलिहान की तरफ़ ले जायें।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 January 2024

bhopal, Digvijay Singh , Lok Sabha elections

भोपाल। लोकसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक दलों ने तैयारी शुरू कर दी है। इसके साथ ही उम्मीदवारों के नाम को लेकर भी चर्चाओं का दौर शुरू हो गया है। इस बीच कांग्रेस के राज्यसभा सदस्या और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह का चुनाव लड़ने को लेकर बड़ा बयान सामने आया है। दिग्विजय सिंह ने लोकसभा चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया है। दरअसल, दिग्विजय सिंह राजगढ़ के खिलचीपुर में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित कर रहे थे। जहां मीडिया द्वारा राजगढ़ लोकसभा सीट से कांग्रेस का उम्मीदवार कौन होगा? पूछे जाने पर दिग्विजय सिंह ने कहा कि 'ये पार्टी तय करेगी।' इसके साथ ही उन्होंने राजगढ़ लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने से इनकार करते हुए कहा कि मेरे चुनाव लड़ने का प्रश्न इसलिए भी नहीं आता क्यों कि मैं राज्यसभा का सदस्य हूं और मेरे पास अभी सवा दो साल है। बता दें कि राजगढ़ से दिग्विजय सिंह के लोकसभा चुनाव लड़ने के कयास लगाए जा रहे थे। दिग्विजय सिंह राजगढ़ लोकसभा सीट पर लगातार सक्रिय हैं। हालांकि 2019 में 16 साल बाद दिग्विजय सिंह ने भोपाल सीट से लोकसभा चुनाव लड़ा था, लेकिन इसमें उन्हें हार का सामना करना पड़ा था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 January 2024

bhopal,  Rajasthan Chief Minister, Bhajanlal Sharma

भोपाल । मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा है कि राजस्थान और मध्यप्रदेश के लोगों को पार्वती, कालीसिंध और चंबल नदियों के पानी का भरपूर लाभ मिलेगा। इन नदियों के जल के बंटवारे से दोनों राज्यों के लाखों किसानों का जीवन बदलेगा। विकास की नई संभावनाएं खुलेंगी। पर्यटन से लेकर औद्योगिक विस्तार मे तेजी आएगी। यह निर्णय विकास के अनेक द्वार खोलेगा। नदियों की जल राशि के उपयोग से जुड़े वर्षों पुराने मुददों का समाधान होगा।   मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने रविवार को जयपुर प्रवास के दौरान राजस्थान के मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा के साथ इस मुददे पर आयोजित बैठक में चर्चा की। राजस्थान के मुख्यमंत्री शर्मा ने जयपुर मुख्यमंत्री डॉ. यादव का आत्मीय स्वागत कर स्मृति चिन्ह भेंट किया। मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने राजस्थान के मुख्यमंत्री शर्मा से दोनों राज्यों के हित में तीन नदियों के जल बंटवारे से संबंधित विषयों पर विस्तार से चर्चा की। केन्द्र सरकार से विमर्श कर निर्णय लिया जायेगा। जयपुर में अनेक जनप्रतिनिधियों और नागरिकों ने भी मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव का पुष्प गुच्छों से स्वागत किया।   मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने मीडिया प्रतिनिधियों से चर्चा में कहा कि दोनों राज्यों की नवगठित सरकारें विकास के कामों में लगातार आगे बढ़ रही हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में लगातार आगे बढ़ रहे हैं। मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में 21वीं सदी में आजादी का अमृत महोत्सव काल चल रहा है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 January 2024

panna, Village development ,Sharma

पन्ना। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी द्वारा चलाए जा रहे गांव चलो अभियान को लेकर पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने शनिवार को पन्ना में कार्यशाला को संबोधित किया। पन्ना के एवरशाइन गार्डन में आयोजित कार्यशाला को संबोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि गांव को विकसित किए बिना विकसित भारत के संकल्प को पूरा नहीं किया जा सकता। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में चलाए जा रहे विकसित भारत संकल्प को पूरा करने के लिए गांव को विकसित करना जरूरी है। भाजपा गांवों को विकसित बनाने के लिए राज्य सरकार के साथ केंद्र सरकार की गरीब कल्याण और जनहितैषी योजनाओं को अंतिम पंक्ति के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने के लिए गांव चलो अभियान चला रही है। 24 घंटे गांव में रहेंगे पार्टी कार्यकर्ता प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि गांव चलो अभियान के तहत पार्टी के कार्यकर्ता गांव में एक रात रहेंगे। प्रदेश के मुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष से लेकर पार्टी के प्रदेश और जिला पदाधिकारी एक गांव में 24 घंटे रहेंगे। शर्मा ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी में कार्यकर्ता सबसे पहले होता है। इस अभियान के माध्यम से भाजपा विधानसभा चुनाव में हारे हुए बूथों को जीतने और जीते हुए बूथों पर 10 प्रतिशत वोट शेयर बढ़ाने को लेकर कार्य करेगी। गांव के सभी पात्र व्यक्तियों को केंद्र और राज्य सरकार की गरीब कल्याण और जनहितैषी योजनाओं का लाभ दिलाया जाएगा। प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने कहा कि पार्टी कार्यकर्ता 24 घंटे गांव में रहेंगे, रात भी गांव में रूकेंगे। इस दौरान गांव में होने वाली गतिविधियों को समझेंगे और ऐसे व्यक्ति जिनका नाम मतदाता सूची में किसी कारणवश छूट गया है, उनका नाम मतदाता सूची में शामिल कराने में सहयोग करेंगे। सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ लोगों को मिल सके इसके लिए उनका नाम योजनाओं में जुड़वाने के लिए प्रयास करेंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  27 January 2024

bhopal, Focus on setting, Dr. Yadav

भोपाल। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने शनिवार को अपने निवास पर हुई समीक्षा बैठक में कहा कि प्रदेश के ऐसे इलाके जहाँ अपेक्षाकृत उद्योग कम हैं, वहाँ स्थानीय आवश्यकताओं के अनुरूप औद्योगिक इकाइयों की स्थापना पर फोकस किया जाए। इसके लिए जिला स्तर पर उद्योग संवर्धन संगोष्ठियां करके उद्योगपतियों एवं निवेशकों को प्रोत्साहित किया जाए।   मुख्यमंत्री डॉ. यादव की अध्यक्षता में हुई मुख्यमंत्री निवास स्थित समत्व भवन में नर्मदा घाटी विकास विभाग, औद्योगिक नीति एवं निवेश प्रोत्साहन, खनिज साधन, जनसंपर्क, वाणिज्यिक और आबकारी विभाग की गतिविधियों पर चर्चा हुई। विभागों द्वारा प्रजेंटेशन दिए गए। बैठक में मुख्य सचिव वीरा राणा सहित संबंधित विभागों के अपर मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव और सचिव उपस्थित थे।   नर्मदा घाटी विकास विभाग मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने नर्मदा घाटी विकास की विभागीय समीक्षा करते हुए जल उपयोग के मामले में श्रेष्ठ परिणाम लाने वाले राज्यों विशेषकर गुजरात में हुए कार्यों का अध्ययन करने के निर्देश दिए। उन्होंने वर्तमान सिंचाई प्रतिशत, सिंचाई के विभिन्न पद्धतियों, आगामी वर्षों में सिंचाई प्रतिशत में वृद्धि के लिए निर्धारित किए गए लक्ष्यों, किसानों के लिए सिंचाई सुविधा के उद्देश्य से जल उपलब्ध करवाने, विभिन्न बांधों के माध्यम से जल विद्युत उत्पादन, जलाशयों और बांधों की उपलब्ध जल क्षमता और उसके उपयोग की जानकारी प्राप्त की।   उन्होंने किसानों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए सिंचाई के लिये पानी उपलब्ध कराने की समय-सारणी निर्धारित करने के निर्देश दिए। इसके साथ ही नर्मदा नदी के बड़े घाटों और नर्मदा नदी के तट पर स्थित प्रमुख धार्मिक महत्व के स्थानों पर नदी में आवश्यक जल प्रवाह की व्यवस्था होना चाहिए। विद्युत उत्पादन और सिंचाई दोनों कार्यों के लिए जल की उपलब्धता और उसके उपयोग के संबंध में सामने आने वाली कठिनाइयों का व्यवहारिक समाधान भी निकाला जाए।   बैठक में बताया गया कि आगामी दो वर्ष में सात लाख हेक्टेयर सिंचाई क्षेत्र का विस्तार करने का लक्ष्य है। नर्मदा घाटी विकास विभाग पाँच वर्ष में 19 लाख 55 हजार हेक्टेयर सिंचाई क्षेत्र का विस्तार करेगा। अपर मुख्य सचिव एनवीडीए डॉ. राजेश राजौरा ने एनवीडीए ने प्रजेंटेशन दिया। साथ ही संकल्प 2023 के बिंदुओं पर क्रियान्वयन की जानकारी दी।   जनसंपर्क विभाग मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने जनसंपर्क विभाग के कार्यों की समीक्षा बैठक में प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक, सोशल मीडिया के माध्यम से हो रहे प्रचार कार्य के साथ ही विषय केन्द्रित और इवेंट आधारित गतिविधियों की रूपरेखा बनाने के निर्देश दिए। बैठक में जनसंपर्क आयुक्त संदीप यादव ने विभाग के कार्यों की जानकारी दी। प्रकाशन, पत्रकार कल्याण, विभागीय प्रशिक्षण, मीडिया प्रशिक्षण गतिविधियों से अवगत कराया। मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने विभागीय प्रकाशन की व्यवस्था को और अधिक पुख्ता करने के साथ ई-प्रकाशन के भी निर्देश दिए। उन्होंने फिल्म निर्माण के क्षेत्र में प्रोत्साहन और पुरस्कार योजना प्रारंभ करने और राज्यों में अध्ययन दल भेजकर नवाचारों को अपनाने के लिए कहा।   औद्योगिक नीति एवं निवेश प्रोत्साहन विभाग मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने औद्योगिक नीति एवं निवेश प्रोत्साहन विभाग की समीक्षा करते हुए कहा कि प्रदेश में ऐसे स्थानों पर उद्योग स्थापना की ठोस पहल की जाए, जहां उद्योग कम हैं। उन्होंने धार, झाबुआ जैसे जनजातीय बहुल क्षेत्रों एवं सागर, जबलपुर जैसे नगरीय क्षेत्रों में उद्योग संवर्धन संगोष्ठियों एवं कार्यक्रमों का आयोजन करने के निर्देश दिए। कृषि, पशुपालन, खनिज आधारित औद्योगिक इकाइयों को प्रारंभ करने की संभावनाओं पर विमर्श करने इनकी स्थापना के लिए भी तेज गति से कार्य करने बांस उत्पादन आधारित इकाइयों और टिंबर व्यवसाय को भी प्रोत्साहित करने के निर्देश दिए।   मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने बैठक में निर्देश दिए कि प्रदेश में ऐसी जगहों पर इकाइयां लगाने का कार्य प्राथमिकता से किया जाए, जहां उन औद्योगिक इकाइयों के विकास की व्यापक संभावनाएं विद्यमान हों। इससे रोजगार सृजन में भी सहायता मिलेगी। बैठक में बताया गयाकि आगामी एक और दो मार्च को उज्जैन में व्यापार मेले 2024 के अवसर पर इन्वेस्टर्स समिट भी प्रस्तावित है। विशेष रूप से पर्यटन, कृषि और स्टार्टअप क्षेत्रों पर फोकस रहेगा। इसमें गुजरात, राजस्थान, महाराष्ट्र सहित स्थानीय निवेशक भी हिस्सा लेंगे।   उन्होंने कहा कि सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम विभाग, खनिज विभाग, और ग्रामोद्योग विभाग संयुक्त रूप से ऐसी इकाइयों की स्थापना के लिए मिलकर कार्य करें, जो इन विभागों के सहयोग से आसानी से संचालित हो सकती हैं। अंतर्विभागीय समन्वय से कचरा प्रबंधन एवं गोबर के उपयोग के लिए संयंत्र स्थापित करने के कार्य किए जाएं। बैठक में बताया गया कि प्रदेश में एमपी.आई.डी.सी. के 10 क्षेत्रीय कार्यालय कार्य कर रहे हैं। प्रदेश में अधिक रोजगार सृजित करने वाले सेक्टर जैसे गारमेंट, टेक्सटाइल, फूड प्रोसेसिंग आदि के लिए विशेष पैकेज उपलब्ध है। जिला उद्योग केन्द्रों के माध्यम से जिला स्तर पर उद्योगपतियों के लिए जिला इन्वेस्टर्स समिट की पहल की जा रही है। विभाग द्वारा आगामी महीनों में देश के विभिन्न स्थानों में प्रस्तावित कार्यक्रमों और उनमें भागीदारी की जानकारी भी दी गई।   खनिज साधन मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा कि अवैध उत्खनन और परिवहन के विरुद्ध अभियान चलाकर कार्रवाई की जाएं। इसके लिए संभागीय टास्क फोर्स का उपयोग किया जाए। खनिजों से राजस्व प्राप्ति के संबंध में विभाग द्वारा नियमित रूप से समीक्षा की जाए। बैठक में बताया गया कि हाल ही में मध्यप्रदेश को मिनरल ब्लॉक्स की नीलामी में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए देश में प्रथम स्थान प्राप्त हुआ है। राज्य एवं जिला स्तरीय टास्क फोर्स, अवैध उत्खनन, परिवहन और भंडारण की रोकथाम के लिए निरंतर निगरानी कर रहा है। सतत जाँच के लिए गत माह संभागीय जाँच दल गठित किए गए हैं। खनिज विभाग के प्रजेंटेशन में बताया गया कि मध्यप्रदेश में 68 खनिज ब्लॉक की नीलामी का उल्लेखनीय कार्य किया है।   प्रदेश में आगामी 6 माह में 13 खदानें प्रारंभ की जाएंगी। प्रदेश में गौण खनिजों की 5895 खदानें स्वीकृत हैं। प्रदेश में प्रधानमंत्री खनिज क्षेत्र कल्याण योजना लागू है, जिसके अंतर्गत 6 हजार से अधिक परियोजनाएं पूर्ण हो चुकी हैं। खनिज अन्वेषण के अंतर्गत जी.एस.आई., एन.एम.डी.सी., मॉइएल, एम.ई.सी.एल, डी.जी.एम और एन.पी.ई.ए. जैसी एजेंसियां कार्यरत हैं। विभागीय पोर्टल का उन्नयन कर विभागीय कार्यों के सरलीकरण पर भी दिया गया है।   आबकारी विभाग मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने आबकारी विभाग की समीक्षा करते हुए विभाग से अर्जित आय एवं वर्तमान में लागू व्यवस्था के संबंध में जानकारी प्राप्त की। मुख्यमंत्री डॉ. यादव के समक्ष प्रजेंटेशन भी दिया गया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  27 January 2024

bhopal, Congress ,Jitu Patwari

भोपाल। मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी अनुसूचित जाति विभाग का विशाल कार्यकर्ता सम्मेलन शनिवार को प्रदेश कांग्रेस कार्यालय के राजीव गांधी सभागार में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी के मुख्य आतिथ्य, अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेश लालोटिया और फूलसिंह बरैया की विशेष उपस्थिति में और प्रदेश कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग के अध्यक्ष प्रदीप अहिरवार की अध्यक्षता में संपन्न हुआ। उपस्थित कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी ने कहा कि हम सभी को मैं नहीं हम की भावना से मिलकर काम करना है। हर हाथ को काम मिले, योग्य व्यक्ति को सम्मान मिले, इस भावना को सरोकार करना ही पार्टी की रीति-नीति है। भाजपा द्वारा लोकतंत्र और संविधान पर हमला किया जा रहा है। हमें वोट की ताकत को समझना है। बाबा साहेब ने और कांग्रेस ने ही देश में वोट की ताकत का अधिकार हम सभी को दिया है और वोट की ताकत को एक करने का अधिकार बाबा साहेब ने दिया। जो वोट की ताकत को गलत तरीके से इस्तेमाल करता है वह संविधान को खतरे में डालने का काम करता है। जीतू पटवारी ने कहा कि हम सभी जागरूक हैं। हमें वोट की ताकत और उसके अधिकार को पूरी चेतना के साथ घर-घर तक पहुंचाने का काम करना है। सामाजिक और आर्थिक क्रांति तभी आ सकती है जब हम वोट की ताकत को समझेंगे। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही हम संगठन की मजबूती, लोकतंत्र और संविधान को बचाने के लिए बूथ स्तर पर संविधान रक्षक बनायेंगे, उन्हें प्रमाण पत्र भी दिया जायेगा। इतना ही नहीं अभा कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी जी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा के मप्र में आने पर हम ‘संविधान बचाओ’ बड़ा कार्यक्रम करेंगे, जिसमें प्रदेश भर के विशेषकर अनुसूचित जाति के कांग्रेस पदाधिकारी, कार्यकर्ता बड़ी संख्या में उपस्थित होंगे। जीतू पटवारी ने कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव के लिए हम सभी को अभी से एकजुट होकर कार्य करना है। कांग्रेस पार्टी द्वारा चलाये जा रहे फंडिंग अभियान में आप सभी सहयोग कर देश की बेहतरी के लिए अपनी सहभागिता करें।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  27 January 2024

bhopal, student going to school,crushed by a dumper

भोपाल। राजधानी के मोती मस्जिद इलाके में शनिवार सुबह पिता और बहन के साथ बाईक से स्कूल जा रही छात्रा को डंपर ने कुचल दिया। घटना सड़क पर रांग साइड खड़ी कार के मालिक द्वारा गेट खोलने से हुआ। लोग तुरंत उसे लेकर हमीदिया अस्पताल पहुंचे जहां उसकी मौत हो गई। पित और बहन घायल है, जिनका ईलाज जारी है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।   जानकारी अनुसार घटना शहर के मोती मस्जिद इलाके की माहिबा नाम की 15 वर्षीय छात्रा अपने पिता और छोटी बहन के साथ बाईक से स्कूल जा रही थी। इस दौरान सड़क पर सामने रॉन्ग साइड कार खड़ी थी। जैसे ही बाईक वहां से गुजरी तभी कार के मालिक ने रोड की तरफ अचानक गेट खोला। बाइक टकराने से पिता और दोनों बेटियां नीचे गिर गईं। इतने में सामने से आ रहा डंपर छात्रा के ऊपर चढ़ गया। गिरने से पिता और बहन भी घायल हो गए। घटना के बाद वहां लोगों भी भीड़ जमा हो गई। सभी बच्ची और पिता को लेकर हमीदिया अस्पताल पहुंचे। जहां छात्रा की मौत हो गई, वहीं पिता की हालत गंभीर बनी हुई है। सूचना के बाद मौके पर पहुंचे टीआई सीएस राठौर से लोगों ने कार मालिक के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की। गुस्साई भीड़ कार में आग लगाने की बात कह रही थी। किसी तरह टीआई ने लोगों को समझाकर शांत कराया। बताया जा रहा है कि पुलिस जब मौके पर पहुंची तो कार मालिक नहीं मिला। पुलिस मामला दर्ज कर जांच में जुट गई है। मौके पर लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाले जा रहे हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  27 January 2024

ujjain, BJP couple ,killed by robbers

उज्जैन। नरवर थाना क्षेत्र के पिपलोदा द्वारकाधीश गांव में भाजपा नेता और गांव के पूर्व सरपंच और उनकी पत्नी की शुक्रवार देर रात हत्या कर दी गई । सूचना मिलने के बाद पुलिस अधीक्षक सचिन शर्मा और थाना प्रभारी की टीम मौके पर पहुंची और मामले की जांच शुरू की है । बताया जा रहा है कि आधा दर्जन बदमाश लूट केे इरादे से पिपलोदा गांव स्थित भाजपा नेता के घर में घुसे थे। इस दौरान दंपति की नींद खुल गई तो बदमाशों ने उनकी हत्या की घटना को अंजाम दिया है । हालांकि पूरे मामले में पुलिस अभी जांच कर रही है।     एस पी सचिन शर्मा ने बताया कि पीपलोदा द्वारकाधीश गांव के पूर्व सरपंच और भाजपा नेता रामनिवास कुमावत और उनकी पत्नी मुन्नी कुमावत की हत्या का मामला सामने आया है। जिसके बाद दो अलग-अलग टीम गठित कर मामले की जांच को शुरू किया गया है। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि सीसीटीवी फुटेज भी खंगाले जा रहे हैं । पता चला है कि सीसीटीवी फुटेज में भी आरोपी कैद हुए हैं । ग्रामीण जनों से मिली जानकारी के अनुसार रामनिवास किसान थे और उनके पास गांव की पुश्तैनी बेशमती जमीन है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  27 January 2024

ujjain, Lord Mahakal ,Republic Day

उज्जैन। गणतंत्र दिवस के अवसर पर शुक्रवार को ज्योतिर्लिंग भगवान महाकालेश्वर की नगरी उज्जैन में धर्म और देशभक्ति का अनूठा संगम देखने को मिला। अल सुबह भस्मारती में जहां भगवान महाकाल के दरबार में शिवभक्त भारत माता की जय के नारे लगा रहे थे, तो दूसरी तरफ भगवान महाकाल भी तिरंगे के रंग में नजर जाए। गणतंत्र दिवस के मौके पर भगवान महाकाल का तिरंगा स्वरूप में शृंगार किया गया। महाकालेश्वर मंदिर के पुजारी पं. महेश पुजारी ने बताया कि महाकालेश्वर मंदिर में धार्मिक पर्वों के साथ-साथ देशभक्ति से ओतप्रोत राष्ट्रीय पर्व भी मनाए जाते हैं। मंदिर में यह परंपरा प्राचीन समय से चली आ रही है। इसी परंपरा को निभाते हुए गणतंत्र दिवस पर भगवान महाकाल को तिरंगे से सजाया गया। भगवान महाकाल के इस आकर्षक स्वरूप का सैकड़ों भक्तों ने दर्शन लाभ लिया। इस मौके पर भक्तों ने बाबा महाकाल के साथ-साथ भारत माता की जय के नारे लगाए। प्रतिदिन की भांति शुक्रवार को महाकालेश्वर मंदिर के पट खुलने के बाद अलसुबह 04 बजे भस्म आरती के दौरान बाबा महाकाल का तिरंगा स्वरूप में शृंगार किया गया। इस दौरान बाबा महाकाल के शृंगार में केसरिया, सफेद और हरे रंग का उपयोग किया गया, साथ ही तिरंगा ध्वज भी बाबा महाकाल को अर्पित किया गया। इसके बाद बाबा महाकाल को भस्म रमाई और मुकुट धारण करवाया गया। बाबा महाकाल के शृंगार ने आज देशभक्ति का संदेश दिया गया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 January 2024

bhopal, cultural traditions, Governor Patel

भोपाल। राज्यपाल मंगुभाई पटेल ने प्रदेशवासियों का आव्हान किया है कि भारत के गौरवपूर्ण अतीत और समृद्ध सांस्कृतिक परम्पराओं के अनुरूप निरंतर कर्म पथ पर चलते हुए मध्यप्रदेश को विकसित एवं आत्म-निर्भर बनाने में अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान दे। उन्होंने कहा कि यह गर्व का विषय है कि हम भारत के लोग संविधान में अंतर्निहित न्याय, स्वतंत्रता, समता, एकता, अखंडता और बंधुता के मार्ग पर चलते हुए निरंतर प्रगति-पथ पर अग्रसर हैं। सरकार का लक्ष्य बिल्कुल स्पष्ट है। पहला सभी वर्गों, क्षेत्रों का उत्थान और सशक्तिकरण, दूसरा जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ अंतिम पक्ति के अंतिम व्यक्ति तक पहुँचाना। तीसरा, प्रदेश के चहुँमुखी विकास के लिए भौतिक अधोसंरचना को अधिक से अधिक सुदृढ़ बनाना। चौथा, सबके लिए शिक्षा, स्वास्थ्य, कौशल विकास, निवेश और रोज़गार एवं स्व-रोज़गार को प्राथमिकता देना। पाँचवां, सरकार के कामकाज में हर स्तर पर सुशासन सुनिश्चित करना और छठवां, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा संकल्प-पत्र में दी गई गारंटियों को पूरा कर मध्यप्रदेश को देश का सबसे अग्रणी राज्य बनाना है।   राज्यपाल पटेल शुक्रवार को 75वें गणतंत्र दिवस पर राजधानी भोपाल में आयोजित मुख्य समारोह को संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम का आयोजन लाल परेड ग्राउंड में किया गया। इस अवसर पर राज्य मंत्री नरेन्द्र शिवाजी पटेल, मुख्य सचिव वीरा राणा और पुलिस महानिदेशक सुधीर कुमार सक्सेना सहित जन प्रतिनिधि, वरिष्ठ अधिकारी, गणमान्य जन और बड़ी संख्या में भोपाल के नागरिक उपस्थित थे।   प्रदेश की अर्थव्यवस्था को 45 लाख करोड़ तक ले जाना लक्ष्य राज्यपाल ने कहा कि प्रधानमंत्री के भारत को अमृतकाल में विश्व की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनाने के संकल्प की पूर्ति के लिए राज्य सरकार का लक्ष्य प्रदेश की अर्थव्यवस्था को 45 लाख करोड़ रुपये के स्तर तक ले जाने का है। मध्यप्रदेश में सांस्कृतिक अभ्युदय का एक महापर्व गतिमान है। श्रीमहाकाल महालोक परिसर की तर्ज पर 18 लोकों के निर्माण के रोडमैप पर तेजी से काम किया जा रहा है। संत शिरोमणि रविदास स्मारक, रानी दुर्गावती स्मारक और श्रद्धेय अटल बिहारी वाजपेयी स्मारक भावी पीढ़ियों के लिए नए प्रेरणा पुंज के रूप में स्थापित होंगे। केन्द्र सरकार से भोपाल में 15 करोड़ रुपये की लागत से सिटी म्यूजियम की स्थापना की स्वीकृति प्राप्त हुई है। प्रदेश के चित्रकूट, खजुराहो, उज्जैन एवं भोपाल में सांस्कृतिक वन बनाए जा रहे हैं। शहरी क्षेत्रों में पर्यावरण और जैव-विविधता के संवर्धन के लिए 100 नगर वन क्षेत्र स्थापित करने का लक्ष्य है। उज्जैन स्थित श्रीमहाकाल महालोक के नीलकण्ठ वन परिसर एवं अवंतिका हाट के मध्य स्वच्छ स्ट्रीट फूड हब ’प्रसादम्’ का शुभारंभ किया गया है।   मानसिक स्वास्थ्य के लिए मनहित ऐप लाँच उन्होंने कहा कि पीएम आयुष्मान भारत हेल्थ इन्फ्रास्ट्रक्चर मिशन के अंतर्गत साढ़े 3 करोड़ रुपए से अधिक की लागत की 3 जिलों की इण्टीग्रेटेड पब्लिक हेल्थ लैब्स का लोकार्पण और 13 जिलों की लैब्स का भूमि-पूजन किया गया है। प्रदेश के सभी जिला अस्पतालों में 132 प्रकार की, प्राथमिक एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में 45 प्रकार की और उप-स्वास्थ्य केन्द्रों में 15 प्रकार की नि:शुल्क जाँचें उपलब्ध हैं। मध्यप्रदेश, देश का पहला राज्य है जहाँ पब्लिक हेल्थ कैडर बनाया गया है। आगामी वर्ष में प्रदेश के सभी जिला चिकित्सालयों में 22 आयुष विंग प्रारंभ करने का लक्ष्य है। प्रदेश में भारत सरकार के सहयोग से 06 तथा राज्य बजट से 09 नए मेडिकल कॉलेज स्थापित किए जा रहे हैं। आम-जनता की मानसिक स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के निराकरण के लिए ’मनहित ऐप’ लांच किया गया है।   महिला सशक्तिकरण कार्यक्रम में 1 करोड़ 29 लाख बहनें लाभान्वित हुई पटेल ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी की मंशा के अनुरूप दिनांक 10 से 15 जनवरी-2024 तक संचालित महिला सशक्तिकरण कार्यक्रम के दौरान प्रदेश की 1.29 करोड़ पात्र बहनों के खातों में 1576 करोड़ रुपये से अधिक की राशि अंतरित की गई है। मुख्यमंत्री लाड़ली लक्ष्मी योजना से अब तक 46 लाख 74 हजार बालिकाओं को लाभान्वित किया जा चुका है। राष्ट्रीय आजीविका मिशन के अंतर्गत अब तक 61 लाख से अधिक महिलाओं को स्व-सहायता समूहों से जोड़ा जा चुका है।   विशेष पिछड़ी जनजातियों की 100 तक की आबादी सड़क से जुड़ेगी उन्होंने कहा कि पीएम जन-मन योजना के अंतर्गत मध्यप्रदेश की विशेष पिछड़ी जनजाति बहुल वाली बसाहटों में लगभग 16 करोड़ रुपये की लागत से 194 नवीन आँगनवाड़ी केन्द्रों की स्थापना की जाएगी। इसी प्रकार 384 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से विशेष पिछड़ी जनजाति क्षेत्रों में बालक एवं बालिका छात्रावास निर्मित किए जाएंगे। भारत सरकार द्वारा विशेष पिछड़ी जनजाति क्षेत्रों में 125 बहुउद्देश्यीय केन्द्रों के निर्माण के लिए 75 करोड़ रुपये की स्वीकृति दी गई है। पीएम जन-मन योजना के माध्यम से बैगा, सहरिया एवं भारिया जनजातियों की 100 तक की जनसंख्या वाली बसाहटों को भी पक्की सड़क से जोड़ा जाएगा। इसी प्रकार विशेष पिछड़ी जनजातीय बहुल क्षेत्रों में आवास निर्माण के लिए प्रति हितग्राही 2 लाख रुपए की राशि प्रदान की जाएगी। इससे प्रदेश में 1 लाख से अधिक लक्षित हितग्राही परिवार लाभान्वित होंगे। सड़क, पुल एवं आवास निर्माण पर 4 हजार 900 करोड़ रुपये से अधिक की राशि व्यय की जाएगी।   21 लाख 74 हजार की सिकल सेल जाँच हुई राज्यपाल ने कहा कि सिकल सेल एनीमिया उन्मूलन हेतु राज्य हीमोग्लोबिनोपैथी मिशन की स्थापना की गई है। प्रदेश के जनजातीय बहुल क्षेत्रों में अब तक 21 लाख 74 हजार से भी अधिक जनसंख्या की जाँच की जा चुकी है तथा 10 लाख 38 हजार से अधिक लाभार्थियों को जेनेटिक काउंसलिंग कार्ड वितरित कर दिए गए हैं। जनजातीय क्षेत्रों में पेसा नियमों के प्रभावी क्रियान्वयन से न केवल पंचायतें एवं ग्राम सभाएँ सशक्त बनी हैं, बल्कि जनजातीय भाई-बहनों के समग्र कल्याण और हितों के संरक्षण का मार्ग भी प्रशस्त हुआ है।   सीएम राइज स्कूलों के बच्चों को परिवहन सुविधा उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी की दूरदर्शी पहल पर देश को नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति की सौगात मिली है। प्रदेश में 369 सर्वसुविधायुक्त सीएम राइज़ विद्यालयों का संचालन प्रारंभ हो चुका है। उज्जैन एवं नर्मदापुरम संभाग के जिलों में इन स्कूलों के विद्यार्थियों के लिए परिवहन सुविधा भी प्रारंभ कर दी गई है। निकट भविष्य में इसका विस्तार सभी सीएम राइज़ स्कूलों में किया जाएगा। प्रदेश के दुग्ध उत्पादकों एवं दुग्ध सहकारी समितियों को लाभान्वित करने के उद्देश्य से गुजरात और मध्यप्रदेश के डेयरी फेडरेशनों की संयुक्त सहभागिता में कार्य हेतु रोडमैप तैयार किया जा रहा है। इस वर्ष अब तक 6 हजार किलोमीटर से अधिक लंबाई की सड़कों का निर्माण एवं उन्नयन किया गया है। प्रदेश में सात हजार किलोमीटर से अधिक लंबाई की सड़कों का नवीनीकरण कर उन्हें नई सड़कों जैसा बनाया जा रहा है। मध्यप्रदेश की सकल ऊर्जा क्षमता 29 हजार मेगावॉट तक पहुँच गई है। जल जीवन मिशन के अंतर्गत 60% से भी अधिक ग्रामीण परिवारों तक नल का शुद्ध जल पहुँच चुका है। प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना एवं लाड़ली बहना योजना की पात्र गैस कनेक्शनधारी महिलाओं को 450 रुपए में गैस रीफिल उपलब्ध कराया जा रहा है। मुख्यमंत्री तीर्थ-दर्शन योजना में इस वर्ष 19 हजार से अधिक वरिष्ठ नागरिकों को रेल एवं हवाई जहाज से तीर्थ-यात्रा कराई गई है।   देश के सबसे अग्रणी राज्य बनाने के तेज गति से हो रहे कार्य राज्यपाल ने कहा कि प्रदेश सरकार ने संकल्प-पत्र-2023 में मध्यप्रदेश के जन-जन को प्रधानमंत्री मोदी द्वारा दी गई गारंटियों को समय-सीमा में पूरा करने हेतु एक नए विजन के साथ मिशन-मोड में काम करना प्रारंभ कर दिया है। इक्कीसवीं सदी के भारत में मध्यप्रदेश, देश का सबसे अग्रणी राज्य बने, इस संकल्प की पूर्ति के लिए नई सरकार कितनी तेज गति से प्रयास कर रही है, इसकी झलक पिछले डेढ़ माह के कार्यकाल में लिए गए जनहितकारी निर्णयों में स्पष्ट दिखाई देती है। ध्वनि विस्तारक यंत्रों के अवैधानिक एवं अनियंत्रित उपयोग को प्रतिबंधित किया गया है। बिना लाइसेंस के खुले में माँस-मछली आदि की बिक्री पर रोक लगाई गई है। भोपाल में नागरिकों की सुविधा और यातायात की सुगमता को देखते हुए BRTS कॉरिडोर को हटाने का निर्णय लेकर यह कार्य भी प्रारंभ कर दिया गया है।   अमृत-काल का आध्यात्मिक अनुष्ठान बना भगवान श्रीराम प्रतिमा की प्राण-प्रतिष्ठा उन्होंने कहा कि गणतंत्र दिवस के इस अमृत महोत्सव की खुशियाँ माननीय प्रधानमंत्री जी की गरिमामय उपस्थिति में अयोध्या में भगवान श्रीराम के भव्य, दिव्य और नव्य मंदिर में प्रभु की पावन प्रतिमा की प्राण-प्रतिष्ठा का अनुष्ठानपूर्ण होने से द्विगुणित हो गई हैं। बरसों की प्रतीक्षा के बाद पौष शुक्ल द्वादशी को यह पुण्य अवसर आया तो पूरा देश भगवान श्रीराम के स्वागत में राममय हो गया। सकल विश्व, आज़ादी के अमृत-काल के इस अद्भुत आध्यात्मिक अनुष्ठान का साक्षी बना।   विकसित भारत-संकल्प-यात्रा से किसान, गरीब, महिला, युवा सशक्त बनें राज्यपाल ने कहा कि विकसित भारत-संकल्प-यात्रा प्रधानमंत्री के आह्वान पर भारत को विकसित बनाने के सपने की अभिव्यक्ति है। यह यात्रा न केवल हर पात्र व्यक्ति तक योजनाओं का लाभ पहुँचाने में सफल हुई है, बल्कि इसके माध्यम से किसान, गरीब, महिला, युवा- सभी सशक्त बने हैं। मध्यप्रदेश में इस यात्रा ने जनपर्व का रूप ले लिया और 2 करोड़ से भी अधिक लोग यात्रा में शामिल हुए। यात्रा के दौरान विभिन्न योजनाओं एवं शिविरों के माध्यम से 50 लाख से भी अधिक नागरिकों को लाभान्वित किया गया है।   न्याय, स्वतंत्रता, समता, एकता, अखंडता और बंधुता पथ पर चलना गर्व का विषय राज्यपाल पटेल ने इस अवसर पर भारतीय संविधान के निर्माता बाबा साहेब डॉ. भीमराव अंबेडकर और संविधान सभा के सभी सदस्यों को नमन करते हुए कहा कि विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र को एक सम्पूर्ण प्रभुत्व-सम्पन्न लोकतंत्रात्मक गणराज्य के रूप में पुष्पित और पल्लवित करने में उनका अमूल्य योगदान दिया। आज कृतज्ञ राष्ट्र उन सभी महापुरुषों, क्रांतिकारियों, जन-नायकों, देशभक्तों और शहीदों के चरणों में पूरी श्रद्धा से नमन कर रहा है, जिनके अदम्य शौर्य, साहस, त्याग और बलिदानों की बदौलत हम आज़ाद भारत की खुली हवा में साँस ले रहे हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 January 2024

bhopal,  Jitu Patwari, hoisted the flag

भोपाल। प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय के प्रांगण में सेवादल के नेतृत्व में शुक्रवार को गणतंत्र दिवस के पावन पर्व पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी ने ध्वजारोहण किया। ध्वज को सलामी दी तथा वंदे मातरम, विजय विश्व तिरंगा प्यारा और जन-गण-मन का गायन हुआ। सेवादल अध्यक्ष योगेश यादव एवं सेवादल द्वारा गार्ड ऑफ ऑर्नर दिया गया। जीतू पटवारी ने प्रदेशवासियों को गणतंत्र दिवस की बधाई एवं शुभकामनाएं प्रेषित करते हुए देश की संप्रभुता, अक्षुण्णता और भाईचारा बनाये रखने का प्रदेश की जनता के नाम संबोधन दिया। इस अवसर पर पटवारी सहित कांग्रेसजनों ने परस्पर बधाई प्रेषित की। मिष्ठान वितरित किया गया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 January 2024

bhopal, Governor hoisted , Ujjain

भोपाल। मध्य प्रदेश में शुक्रवार को 75वां गणतंत्र दिवस हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा है। इस अवसर पर राज्यपाल मंगुभाई पटेल ने जहां राजधानी भोपाल में राज्य स्तरीय समारोह में ध्वजारोहण किया, तो वहीं मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने उज्जैन में जिला स्तरीय समारोह में राष्ट्रीय ध्वज फहराया और परेड की सलामी ली। यह पहला मौका है जब उज्जैन में किसी मुख्यमंत्री ने झंडावंदन किया। गणतंत्र दिवस के मौके पर भगवान महाकाल का तीन रंगों से श्रृंगार कर भस्म आरती की गई।   मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव उज्जैन में आयोजित जिला स्तरीय कार्यक्रम में ध्वजारोहण कर परेड की सलामी ली। इस दौरान उन्होंने अपने भाषण में कई घोषणाएं की। साथ ही प्रदेश की कई उपलब्धियों का भी जिक्र किया। उन्होंने इस दौरान स्वच्छता सर्वेक्षण 2023 में इंदौर सहित अन्य शहरों द्वारा हासिल की गई उपलब्धियों का जिक्र करते हुए सफाई मित्रों की तारीफ की। वहीं गणतंत्र दिवस के मौके पर प्रदेश की जेल में बंद 161 कैदियों को रिहा करने की भी घोषणा की।   मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा कि अयोध्या में श्रीराम मंदिर में भगवान श्रीराम की प्राण प्रतिष्ठा से राम राज्य की संकल्पना जीवंत हो गई है। मुख्यमंत्री ने घोषणा की कि चित्रकूट को विश्व स्तरीय धार्मिक और पर्यटन केंद्र बनाने का निर्णय लिया गया है। यहां प्रतिवर्ष रामायण मेला आयोजित किया जाएगा। साथ ही मप्र सरकार सीएम तीर्थ दर्शन योजना के तहत हवाई और रेल मार्ग से अयोध्या की यात्रा कराएगी। इसके साथ ही ओरछा के श्री रामराजा मंदिर परिसर में श्री राम राजा लोक का निर्माण कर रही है।   उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा श्री अन्न उत्पादन में क्रांति लाने के लिए 100 करोड़ रुपये से अधिक की रानी दुर्गावती श्री अन्न प्रोत्साहन योजना लागू की गई है । श्री अन्न उत्पादन करने वाले किसानों को 10 रुपये प्रति किलो प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। 1 हजार रुपये प्रति क्विंटल की धनराशि का भुगतान किया जाएगा।   मुख्यमंत्री ने अपने भाषण में कहा कि पीएम के आह्वान पर 10 से 15 जनवरी तक महिला सशक्तिकरण और युवा ऊर्जा पर केंद्रित मकर संक्रांति पर उत्सव उल्लास के साथ मनाया गया। इस दौरान एक करोड़ 29 लाख महिलाओं के खाते में 1576 करोड़ की राशि और 56 लाख से अधिक हितग्राहियों के खाते में 341 करोड़ रुपये की सामाजिक सुरक्षा पेंशन अंतरित की गई।   उन्होंने कहा कि उज्जैन में मेडिसिटी बनाई जाएगी। जिसके निर्माण से सभी प्रकार की चिकित्सा सुविधा मिलेगी। यह प्रदेश की पहली मेडिसिटी होगी। हमने मध्य प्रदेश के इतिहास की सर्वाधिक 17 हजार 586 मेगावाट बिजली की पूर्ति बिना किसी कटौती के की है। पेपरलेस बिलिंग व्यवस्था लागू करने से 136 करोड़ रुपये प्रतिवर्ष बचत की संभावना है। पांच शहरों को सोलर सिटी बनाने का लक्ष्य है। मप्र दाल उत्पादन में पहले, खाद्यान्न उत्पादन में दूसरे और तिलहन उत्पादन में तीसरे स्थान पर है।   उन्होंने कहा कि उज्जैन में कपिला गौशाला के लिए योजना बनाई जाएगी। मोबाईल पशु चिकित्सा यूनिट के माध्यम से 3 लाख 60 हजार पशु चिकित्सा उपलब्ध कराई गई है। विकसित भारत संकल्प यात्रा के दौरान मध्य प्रदेश के 50 से अधिक लोगों को लाभान्वित किया गया। यात्रा के दौरान 2 करोड़ से अधिक लोग शामिल हुए।   मुख्यमंत्री ने कहा कि गणतंत्र दिवस के अवसर पर मैं देश की स्वतंत्रता हेतु अपने प्राणों को न्योछावर करने वाले अमर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं एवं सभी संविधान निर्माताओं के प्रति हृदय से कृतज्ञता ज्ञापित करता हूं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की गरिमामयी उपस्थिति में अयोध्या में भगवान श्री राम की प्राण-प्रतिष्ठा से भारत में राम राज्य की संकल्पना जीवंत हो गई है। इस अवसर पर बाबा महाकाल की नगरी उज्जैन से 5 लाख लड्डुओं का प्रसाद अयोध्या भेजा गया। प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में 'सबका साथ, सबका विकास' लोकतंत्र का शरीर और रामराज्य लोकतंत्र की आत्मा बन गया है। मुझे यह कहते हुए प्रसन्नता है कि विकसित भारत संकल्प यात्रा के माध्यम से मध्यप्रदेश में 50 लाख से अधिक लोग लाभान्वित हुए हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 January 2024

bhopal, Chief Minister , Padma Award

भोपाल। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने वर्ष 2024 के पद्म पुरस्कारों में पद्मश्री पुरस्कार के लिए चयनित मध्य प्रदेश की चार विभूतियों को बधाई दी है। मुख्यमंत्री डॉ यादव ने कहा कि भगवती लाल राजपुरोहित, ओम प्रकाश शर्मा, सत्येंद्र सिंह लोहिया और कालूराम बामनिया ने अपने अपने क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्यकर मध्य प्रदेश का गौरव बढ़ाया है। इन सभी चयनित विभूतियां की उपलब्धियों पर मध्य प्रदेश वासियों को गर्व है।       उल्लेखनीय है कि भगवती लाल राजपुरोहित को मालवी संस्कृति और साहित्य पर पुस्तकों ,विशेष रूप से नाटकों के लेखन के लिए, ओम प्रकाश शर्मा को पारंपरिक माच गायन शैली को रंगमंच से जोड़कर शानदार प्रस्तुतियों के लिए, कालूराम बामनिया को कबीर गायन के क्षेत्र में एवं दिव्यांग प्रतिभा सत्येंद्र सिंह लोहिया को तैराकी के क्षेत्र में विशेष प्रदर्शन के लिए पद्मश्री के लिए चयनित किया गया है। ओम प्रकाश शर्मा और भगवती लाल राजपुरोहित उज्जैन, कालूराम बामनिया, देवास और सत्येंद्र लोहिया भिंड जिले से हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 January 2024

bhopal, Retired SDO , joined BJP

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा के समक्ष गुरुवार को भारतीय जनता पार्टी, प्रदेश कार्यालय में कांग्रेस, सपा, बसपा के नेतागण एवं सेवानिवृत्त एसडीओ ओ.पी. द्विवेदी सहित कांग्रेस के 12, सपा के 11 एवं बसपा के एक सरपंच ने भारतीय जनता पार्टी की रीति-नीति से प्रभावित होकर पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने भाजपा में शामिल हुए सभी नेताओं को पार्टी का अंगवस्त्र पहनाकर स्वागत किया।   सदस्यता लेने वालों में निवाड़ी जिले से कांग्रेस के बपरोली संरपच आनंद यादव, ढीमरपुरा सरपंच संजीव केवट, तरिचखुर्द सरपंच दयाराम अहिरवार, देंवेन्द्रपुरा सरपंच राहुल यादव, नोरा सरपंच अमित यादव, कुडार सरपंच देवव्रत अडजरिया, लडवारी सरपंच संजय तोमर, बिल्ट सरपंच बिलेखा देवी यादव, गुर्जरकला सरपंच राजू अहिरवार, कलोथर सरपंच संजीव प्रजापति, पिपरा सरपंच जीवन प्रजापति, पूर्व मुडारा सरपंच अशोक पुरी हैं। इसी तरह सपा के भमौरा सरपंच ब्रजेन्द्र यादव, पूर्व बसोवा सरपंच संजीव यादव, पठारी सरपंच तारासिंह यादव, घुघसी सरपंच अरविंद यादव, कठऊपहाडी सरपंच अखण्ड यादव, जनोली सरपंच विशाल यादव, सेंदरी सरपंच राहुल यादव, मुडारा सरपंच बज्रपाल यादव, गुर्जर खुर्द सरपंच निराकेश यादव, बसोवा सरपंच अंतरसिंह अहिरवार, मकारा सरपंच सोनू यादव और बसपा के बनगाय सरपंच सुनील अहिरवार शामिल थे।     इस अवसर पर पार्टी के निवाड़ी जिला अध्यक्ष अखिलेश अयाची, जिला महामंत्री लोकेश दांगी, गेश रामपुरिया, अरविंद चौबे, कौषाध्यक्ष राहित राय, पवन दुबे, अमन व्यास, हितकिशोर व्यास, सत्यपाल सिंह उपस्थित रहे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 January 2024

ujjain, Stone pelting, situation under control

उज्जैन। जिले के माकड़ोन में थाना क्षेत्र में गुरुवार सुबह दो पक्षों (मालवीय और पाटीदार समाज) में विवाद हो गया। सूचना मिलने पर तत्काल घटनास्थल पर पुलिस अधीक्षक सचिन शर्मा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नितेश भार्गव, अनुविभागीय अधिकारी, थाना प्रभारी माकड़ोन पहुँचे और दोनों पक्षों से घटना के संबंध में जानकारी ली।   पुलिस के अनुसार, एक पक्ष द्वारा माकड़ोन बस स्टैंड पर पूर्व से लगी सरदार वल्लभ भाई पटेल की प्रतिमा को अन्य समाज के लोगों ने गिरा दिया गया था, उनकी मांग है कि सरदार पटेल की प्रतिमा के स्थान पर बाबा अंबेडकर की प्रतिमा लगाई जावे। इसके पश्चात दोनो पक्षों में पत्थरबाजी की स्थिति बन गई। मौके पर पहुँचे अधिकारियों द्वारा दोनों पक्षों से बातचीत कर समझाईश दी गई, स्थिति सामान्य है। दोनों पक्षों के द्वारा बतायी गई घटना को संज्ञान में लेकर गंभीरता से जाँच की जा रही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 January 2024

anuppur, BJP MLA Marawi

अनूपपुर। बांधवगढ़ से उप मुख्यमंत्री से मुलाकात कर वापस लौट रहें शहडोल जिले के जैतपुर से भाजपा विधायक जय सिंह मरावी के वाहन में तेज रफ़्तार कार की टक्कर से अनियंत्रित होकर पलट गई। जिसमें गनमैन को आई चोट आई।   जानकारी अनुसार बुधवार की देर रात विधायक जय सिंह मरावी अपने वाहन से बांधवगढ़ से उप मुख्यमंत्री से मुलाकात कर वापस लौट रहें थे जहां राष्ट्री य राज्यनमार्ग 43 पर बुढार के ठीक पहले एक कार ने विधायक के वाहन में,टक्कर मार कर मौके से फरार हो गया। हादसे में विधायक के गनमैन को आई चोट आई वहीं विधायक जय सिंह मरावी एवं चालक सुरक्षित बताये जा रहें हैं। पुलिस मौके पर पहुच कर घटना स्थोल की जांच कर पास के पैट्रोल पम्प लगे सीसीटीवी फुटेज के आधार अज्ञात वाहन की तलास कर रहीं हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 January 2024

seopur, Namibian Cheetah Jwala, Madhya Pradesh

नई दिल्ली। मध्य प्रदेश के कूनो नेशनल पार्क में नामीबिया की चीता ज्वाला ने तीन नहीं चार शावकों को जन्म दिया है। यह जानकारी केंद्रीय पर्यावरणमंत्री भूपेंद्र यादव ने आज एक्स हैंडल पर साझा की है। कल उन्होंने कहा था कि ज्वाला ने तीन शावक जन्मे हैं।   केंद्रीयमंत्री यादव ने आज एक्स हैंडल पर लिखा है, ''जैसे ही अग्रिम पंक्ति के वन्यजीव योद्धा ज्वाला के करीब पहुंचने में कामयाब रहे, उन्होंने पाया कि उसने तीन नहीं, बल्कि चार शावकों को जन्म दिया है। इससे हमारा आनंद कई गुना बढ़ गया है। सभी को बधाई। हम प्रार्थना करते हैं कि शावक भारत में अपने घर में फलें-फूलें और समृद्ध हों।'' उल्लेखनीय है कि कूनो नेशनल पार्क में दक्षिण अफ्रीका और नामीबिया से दो चरणों में 20 चीता लाए गए थे। कूनो राष्ट्रीय उद्यान (कूनो नेशनल पार्क) संरक्षित क्षेत्र है। इसकी स्थापना 1981 को वन्य अभयारण्य के रूप में की गई थी। यह राज्य के श्योपुर और मुरैना जिलों पर विस्तारित है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 January 2024

morena, New airline , Scindia

मुरैना। केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मंशा है कि हमें रूकना नहीं, हमें झुकना नहीं, जब तक एक विकासशील भारत नहीं बन जाता, तब तक निरंतर कार्य करना है। हम आत्मनिर्भर बनेंगे, यह हमारा विश्वास है। इस क्षेत्र में रेल और बांधों का निर्माण सिंधिया परिवार की देन है। एक तारीख से भारत में नई एयरलाइन चालू होगी।   केन्द्रीय मंत्री सिंधिया बुधवार को सुमावली विधानसभा क्षेत्र के ग्राम बंधा में विकसित भारत संकल्प यात्रा को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर उन्होंने नौ करोड़ 69 लाख रुपये से अधिक के हितलाभ भी वितरित किये। कार्यक्रम में कृषि मंत्री ऐदल सिंह कंषाना, विधायक सरला रावत, पूर्व मंत्री मुंशीलाल, भाजपा जिला अध्यक्ष डॉ. योगेशपाल गुप्ता, राकेश मावई समेत क्षेत्र की विभिन्न पंचायतों के ग्रामीणजन उपस्थित थे।   उन्होंने कहा कि बड़े महाराज द्वारा ग्वालियर में छोटा एरोड्रम (हवाई अड्डा) बनाया था, किन्तु प्रधानमंत्री मुझे नागरिक उड्डयन मंत्री की जिम्मेदारी दी है, मैं भी अपनी जिम्मेदारी के साथ एरोड्रम को बड़ा हवाई अड्डा बना रहा हूं, जो आगे 50 वर्षो के लिये काम आयेगा। ढ़ाई लाख स्क्वार फिट में बनकर तैयार होगा। ऐसा भोपाल, इंदौर में भी नहीं होगा। यहां से बैंगलूरू, इंदौर, हैदराबाद और दिल्ली के लिये उड़ान भरी जाएगी। इसके साथ ही एक प्लेन ग्वालियर से दिल्ली और अयोध्या के लिये भी जायेगा। एक तारीख से भारत में नई एयरलाइन प्रधानमंत्री के अहमदाबाद से जुड़ जायेगी, जिससे लोग आसानी से जा सकेंगे। प्रधानमंत्री की मंशा है कि हवाई चप्पल वाला भी व्यक्ति हवाई जहाज की शहर करे, ऐसी उनकी तमन्ना है, ऐसा मैं बनाकर रहूंगा। हमें रूकना नहीं, हमें झुकना नहीं, जब तक एक विकासशील भारत को बनाना नहीं, जब तक भारत को आत्मनिर्भर नहीं बना सकें, तब तक हमें रूकना नहीं। भारत को विश्वगुरू के रूप में स्थापित करना है।   सिंधिया ने कहा कि आज मुझे बड़ी खुशी हो रही है कि उज्जवला योजना के तहत जिन महिलाओं को गैस-सिलेण्डर दिये जा रहे हैं, तो अब वे उस धुआं से मुक्ति पा सकेंगी। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र के लिये कृषि मंत्री वटवृक्ष के रूप में है। सुमावली से जनता से इन्होंने दिल जीता है, मैं ऐदल सिंह और सुमावली की जनता को दिल से धन्यवाद देता हूं। मध्यप्रदेश की विधानसभा में विधायक बनाकर भेजा है, इनकी काबीलियत पर मुख्यमंत्री ने इन्हें कृषि मंत्री का दायित्व सौंपा है। प्रदेश के आठ करोड़ अन्नदाताओं की बागडोर कृषि मंत्री के रूप में ऐदल सिंह कंषाना संभालेंगे। यह जिम्मेदारी बहुत बड़ी है, वो ऐदल सिंह क्षमता रखते हैं।   उन्होंने कहा कि माधव महाराज ने श्योपुर, मुरैना, ग्वालियर, भिण्ड, शिवपुरी, दतिया, अशोकनगर, रतलाम, राजस्थान के भी कई जिले ऐसे थे, जहां उन्होंने कच्चे तालाव बनाये थे। वे तालाव आज भी जीवित है, जिसमें हरषी का बांध आज पूरे भारत में चिन्हित है। उन्होंने कहा कि केनाल पर भी 130 वर्ष पूर्व कार्य किया था, वे केनाल आज किसानों के लिये जीवन दायिनी के रूप में कार्य कर रही है। मेरा सुमावली की जनता से प्यार और मोहम्मत का रिश्ता है। मेरा विश्वास है कि जान चली जाये पर विश्वास नहीं जाना चाहिए। चम्बल माटी की क्षमता है, जो भी चंबल का पानी पीता है, उसमें क्षमता भी होती है, उस पानी में चीनी जैसी मिठास भी होती है। जिन लोगों ने चम्बल का पानी पिया है, उन लोगों का ऐदल सिंह ने दिल जीत लिया है।   सिंधिया ने कहा कि ग्वालियर से आगरा का छह लेन स्वीकृत हुआ है, जिसकी लागत चार हजार करोड़ रुपये होगी। मेरी केन्द्रीय मंत्री गड़करी से इस संबंध में बात हो गई है। अब ग्वालियर से आगरा का सफर एक घंटा 15 मिनिट में पूरा कर सकेंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 January 2024

bhopal, Scindia , BJP

भोपाल। मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव में प्रचंड जीत के बाद अब भाजपा लोकसभा चुनाव की तैयारी में जुट गई है। भाजपा के दिग्गज नेता लगातार अपने क्षेत्राें का दौरा कर रहे हैं और कार्यकर्ताओं के बीच पहुंच रहे हैं। केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया अपने पांच दिवसीय दौरे पर ग्वालियर -चंबल अंचल में हैं। यहां सिंधिया ने कांग्रेस को एक बड़ा झटका दिया है। बुधवार को केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के समक्ष 228 कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस को छोडकर भाजपा का दामन थाम लिया है। दरअसल कुछ दिनों पहले कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आए पूर्व विधायक राकेश सिंह मावई के नेतृत्व में बुधवार को करीब 228 कार्यकर्ता सिंधिया के ग्वालियर स्थित जय विलास पैलेस में पहुंचे। यहां केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के समक्ष सभी ने भाजपा का दामन थामा। भाजपा में शामिल होने वाले पदाधिकारियों में मुरैना की महिला कांग्रेस की जिला अध्यक्ष संजू शर्मा, अल्पसंख्यक विभाग के शहर अध्यक्ष हसनैन खान, बानमोर ब्लॉक के सभी मंडल अध्यक्ष, सेक्टर अध्यक्ष एवं मुरैना दक्षिण के सभी सेक्टर और मुरैना उत्तर के 15 सेक्टर एवं 7 मंडल एवं जिला पदाधिकारी और ब्लॉक पदाधिकारी समेत आईटी सेल की प्रदेश पदाधिकारी एवं जिला पदाधिकारी शामिल हैं। बता दें कि मुरैना विधानसभा से कांग्रेस के विधायक रहे राकेश मावई अपनी पार्टी से नाराज चल रहे थे। विधानसभा चुनाव में टिकट नहीं मिलने से नाराज राकेश मावई ने पिछले दिनों भाजपा का दामन थाम लिया था। केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के समक्ष दिल्ली पहुंचकर राकेश मावई ने भाजपा की सदस्यता ली थी। अब एक साथ 228 कार्यकर्ताओं द्वारा उठाए गए इस फैसले से कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 January 2024

bhopal, Chief Minister ,congratulated ,Dewas police station

भोपाल। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने भारत सरकार के गृह मंत्रालय द्वारा देशभर के 10 सर्वश्रेष्ठ थानों में देवास के सिविल लाइन थाने का चयन होने पर शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने बुधवार को सोशल मीडिया पर जारी संदेश में कहा कि यह उपलब्धि देवास सहित हम सभी मध्यप्रदेश वासियों के लिए गर्व का विषय है।     मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा कि पूरे देश में मध्यप्रदेश के थाने का चयन होना सुशासन एवं बेहतर कानून व्यवस्था का उत्तम उदाहरण है। जन-सेवा एवं अपने कर्तव्यों के प्रति समर्पित थाने के समस्त पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों का अभिनंदन है। पुलिस महानिदेशक सुधीर सक्सेना ने पुलिस मुख्यालय में देवास के पुलिस अधीक्षक सम्पत उपाध्याय और थाना प्रभारी अजय चानना को केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा प्रदत्त सम्मान-पत्र और स्मृति-चिह्न प्रदान कर सम्मानित किया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 January 2024

bhopal, Birth of small cheetah ,Chief Minister Dr. Yadav

भोपाल। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा कुनो राष्ट्रीय उद्यान में शुरू किया गया अभिनव प्रकल्प चीता प्रोजेक्ट सफल हो रहा है। एशिया से गायब हुए चीता मध्यप्रदेश के पारिस्थितिक तंत्र में न सिर्फ फल फूल रहा है, बल्कि वंश वृद्धि में भी लगा है। यह प्रदेश के लिए सौभाग्य की बात है।   मुख्यमंत्री डॉ. यादव मंगलवार को मीडिया से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कुनो में मादा चीता ज्वाला ने तीन नन्हे चीता शावकों को जन्म दिया है। प्रदेश में चीता प्रजाति के प्राणियों की संख्या अब 21 हो गई है। मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने प्रदेश में चीतों के कुनबे में वृद्धि होने पर प्रदेशवासियों को बधाई दी है।   चीता परियोजना अन्य देशों के लिये वन्य जीव प्रबंधन का आदर्श उदाहरणः मंत्री चौहान वहीं, प्रदेश के वन मंत्री नागर सिंह चौहान ने पालपुर कूनो नेशनल पार्क में चीता परिवार में नये सदस्यों के जन्म पर प्रसन्नता जाहिर करते हुए कहा कि पालपुर कूनो नेशनल पार्क का वातावरण चीतों के स्वास्थ्य के लिये अनुकूल साबित हुआ है। उन्होंने कहा कि चीता परियोजना प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की दूरदृष्टि का सफल परिणाम है। चीता संरक्षण एवं संवर्धन के लिये प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन से मध्यप्रदेश और देश का नाम दुनिया में हुआ है।   उन्होंने कहा कि वन्य जीव प्रबंधन की दृष्टि से चीता परियोजना अन्य देशों के लिये एक उदाहरण बन गई है। वन्य जीव विशेषज्ञ चीता परियोजना का अध्ययन करने मध्यप्रदेश आ रहे हैं। वन मंत्री चौहान ने प्रदेशवासियों को बधाई दी है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 January 2024

bhopal, MP gets Award ,mineral blocks

भोपाल। राज्य खनन मंत्रियों के सम्मेलन वर्ष 2022-23 में खनिज ब्लाकों की नीलामी में अनुकरणीय प्रदर्शन के लिए मध्य प्रदेश को अवार्ड ऑफ एप्रिसिएशन मिला है। इस सम्मेलन का उद्घाटन केन्द्रीय कोयला, खान एवं संसदीय कार्यमंत्री प्रह्लाद जोशी ने किया। मंगलवार को स्थानीय कुशाभाऊ ठाकरे सभागार में यह अवार्ड मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने प्राप्त किया। मंगलवार को स्थानीय कुशाभाऊ ठाकरे सभागार में राज्य खनन मंत्रियों के सम्मेलन का शुभारंभ हुआ।केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी की अध्यक्षता में हो रहे इस सम्मेलन में मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव भी मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल हैं। इस सम्मेलन में 20 राज्यों के खनिज मंत्री हिस्सा ले रहे हैं। इस मौके पर “माइनिंग एंड बियॉन्ड’’ विषय पर प्रदर्शनी भी कुशाभाऊ ठाकरे सभागार परिसर में लगाई गई है। मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव व केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी ने इस प्रदर्शनी का अवलोकन किया। प्रदर्शनी में जियोलॉजिकल सर्वे आफ इंडिया, जिला खनिज प्रतिष्ठान सहित देश की प्रमुख खनन कंपनियों, निजी एजेंसियों और स्टार्ट-अप्स द्वारा अपनी उपलब्धियां को प्रदर्शित किया गया है। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा कि वे यह मानते रहे हैं कि माइनिंग विभाग काजल की कोठरी है। इसमें न जाने क्या होता होगा और कार्यक्रम में शामिल होने तक यही सोचता रहा, लेकिन केंद्रीय खनन विभाग की प्लानिंग के बारे में जानकारी मिलने पर भरोसा हुआ है कि पारदर्शिता का काम तेज हुआ है। केन्द्र सरकार का खनन एजेंसियों को जोड़ने के लिए शुचिता को बढ़ाने का काम है। इस तरह के मामलों में सरकारों को आरोप से बचाने का काम केंद्र सरकार की नीतियां कर रही हैं। इससे पहले केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी सम्मेलन में शिरकत करने के लिए मंगलवार सुबह भोपाल पहुंचे। यहां पर उन्होंने सम्मेलन से पहले मुख्यमंत्री आवास पहुंचकर मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव से शिष्टाचार भेंट की। मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने पुष्पगुच्छ भेंट कर उनका आत्मीय स्वागत किया। इस दौरान दोनों के बीच राज्य में कोयला एवं खनन क्षेत्र से जुड़े विषयों पर चर्चा हुई। उल्लेखनीय है कि यह राज्य खनन मंत्रियों का दूसरा सम्मेलन है। पहली बार यह सम्मेलन सितंबर 2022 में हैदराबाद में आयोजित किया गया था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 January 2024

tikamgarh, Army soldier , heart attack

टीकमगढ़। मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ जिले में सोमवार को सेना के जवान की हार्ट अटैक से मौत हो गई। बताया जा रहा है कि क्रिकेट खेलने के दौरान उसके सीने में दर्द हुआ और उसकी तबीयत बिगड़ गई। जवान एक महीने की छुट्टी पर घर आया था। उसे 6 फरवरी को ड्यूटी पर लौटना था।   मामला जिले के लिधौरा थाना क्षेत्र के मरगुवां गांव का है। जहां रहने वाला 35 वर्षीय विनोद वंशकार थल सेना में सैनिक है और वह वर्तमान में सारंगपुर में पदस्थ है। वह एक महीने की छुट्टी पर घर आया था। सोमवार सुबह अचानक उसे सीने में दर्द हुआ। परिजन जिला अस्पताल लेकर आए, प्राथमिक उपचार के बाद डॉक्टरों ने उसे झांसी रेफर कर दिया, लेकिन रास्ते में ही मौत हो गई।   इसके बाद परिजन उसके शव को गांव ले गए। घटना की जानकारी लगते ही पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने बताया कि सागर आर्मी कैंप से सेना के अधिकारी आ रहे हैं। अधिकारियों के आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। आर्मी जवान विनोद वंशकार की मौत से पूरे गांव में मातम छा गया है। उनके घर बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ जमा हो गई है। फिलहाल, पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 January 2024

bhopal, Transfer , IAS officers

भोपाल। राज्य शासन द्वारा भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) के 12 अधिकारियों का तबादला करते हुए उनकी नवीन पदस्थापना की है। इनमें गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव डॉ. राजेश राजौरा का भी शामिल है। उन्हें गृह विभाग से हटाकर नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण का उपाध्यक्ष बनाया गया है। उनका 3 साल बाद तबादला हुआ है। इस संबंध में सामान्य प्रशासन विभाग ने सोमवार देर शाम आदेश जारी किए हैं।   जारी आदेश के अनुसार, मनीष सिंह को वित्त विभाग का प्रमुख सचिव बनाया गया है, जबकि गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव का जिम्मा संभाल रहे राजेश कुमार राजौरा को नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण का उपाध्यक्ष और अपर मुख्य सचिव मध्य प्रदेश शासन नर्मदा घाटी विकास एवं प्रबंध संचालक, नर्मदा बेसिन प्रोजेक्ट कंपनी लिमिटेड और अपर मुख्य सचिव प्रदेश जल संसाधन विभाग एवं परिवहन विभाग का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है। वहीं, 1993 बैच के आईएएस अधिकारी संजय दुबे को गृह विभाग, ऊर्जा विभाग तथा नवीन एवं नवीनीकरण ऊर्जा विभाग का प्रमुख सचिव बनाया है।   इसी तरह 1990 बैच के आईएएस अधिकारी एसएन मिश्रा को कृषि उत्पादन आयुक्त, अपर मुख्य सचिव जनजातीय कार्य विभाग एवं अनुसूचित जाति कल्याण विभाग का अतिरिक्त प्रभार सौंपा है, जबकि 1990 बैच के आईएएस अधिकारी अजीत केसरी को आदिम जाति अनुसंधान एवं विकास संस्थान भोपाल तथा अपर मुख्य सचिव मध्य प्रदेश शासन, धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व विभाग तथा अपर मुख्य सचिव पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण विभाग एवं अपर मुख्य सचिव विमुक्त घुमंतु एवं अर्धघुमंतु जनताति विभाग का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है।   1994 बैच की आईएएस अधिकारी दीपाली रस्तोगी को प्रमुख सचिव सहकारिता विभाग तथा महिला एवं बाल विकास विभाग का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है, जबकि 1996 बैच के आईएएस अधिकारी अमित राठौर को प्रमुख सचिव वाणिज्यिक कर विभाग बनाया गया है।   इसी प्रकार, 1997 बैच के आईएएस अधिकारी मनीष सिंह को प्रमुख सचिव वित्त विभाग, 2009 बैच के आईएएस अधिकारी तरूण पिथौड़े को संचालक खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण, प्रबंध संचालक राज्य भंडार गृह निगम भोपाल का अतिरिक्त प्रभार। 2015 बैच के अधिकारी रौशन कुमार सिंह को जनसंपर्क विभाग का संचालक पदस्थ किया गया है। भोपाल नगर निगम आयुक्त फ्रैंक नोबल को भोपाल स्मार्ट सिटी के मुख्य कार्यापालन अधिकारी का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है।   वहीं, 2015 बैच की आईएएस अधिकारी गुंचा सनोवर को अपर आयुक्त भू-अभिलेख एवं बंदोबस्त, ग्वालियर, 2015 बैच की आईएएस अधिकारी शीला दाहिमा को उप सचिव सहकारिता विभाग और 2016 बैच के आईएएस अधिकारी प्रताप नारायण यादव को प्रबंध संचालक राज्य नागरिक आपूर्ति निगम भोपाल की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 January 2024

bhopal, Governor Mangubhai Patel , Ram Mandir

भोपाल। राज्यपाल मंगुभाई पटेल सोमवार को राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह के अयोध्या से सीधे प्रसारण कार्यक्रम में सम्मिलित हुए। सीधे प्रसारण कार्यक्रम का आयोजन राजभवन परिसर स्थित मंदिर प्रांगण में किया गया था। इस अवसर पर राज्यपाल के प्रमुख सचिव डीपी आहूजा, राजभवन के अधिकारी-कर्मचारी और राजभवन परिसर के निवासी उपस्थित थे। समारोह के प्रसारण के पूर्व राज्यपाल मंगुभाई पटेल राजभवन मंदिर पहुँचे। विधि विधान के साथ पूजन-अर्चन किया। कार्यक्रम के प्रारंभ में कन्या पूजन किया। राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह के अयोध्या से सीधे प्रसारण का अवलोकन किया। उन्होंने प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम उपरांत बच्चों को प्रसाद का वितरण किया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 January 2024

shivpuri,  visit offices ,Modi

शिवपुरी। केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सोमवार को अपने शिवपुरी प्रवास के दौरान विकसित भारत यात्रा के अलावा और भी कई कार्यक्रमों में भाग लिया। इस दौरान शिवपुरी में केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने विकसित भारत संकल्प यात्रा में भी भाग लिया। माधव चौक चौराहे के नजदीक विकसित भारत संकल्प यात्रा के माध्यम से केंद्र सरकार की योजनाओं के बारे में जानकारी दी गई। इस मौके पर आयोजित कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री श्री सिंधिया ने कहा कि मोदी के राज में अब जनता को दफ्तरों के चक्कर नहीं लगाने पड़ते। यह मोदी का जमाना है कि सरकार और प्रशासन लोगों के घर का चक्कर लगा रहा है। उन्होंने कहा कि आज 80 करोड लोगों को गरीब कल्याण योजना के तहत राशन का वितरण किया जा रहा है। किसान सम्मान निधि के माध्यम से 6 हजार रुपए हर महीने किसानों को दिए जा रहे हैं। जिससे खेती किसानी के काम में किसानों के लिए यह राशि मददगार साबित हो रही है। इसके अलावा प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत 10 करोड़ महिलाओं को गैस कनेक्शन दिए गए हैं।   हनुमान मंदिर से देखा प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम-   यहां के प्रसिद्ध हनुमान मंदिर पर बैठकर के अयोध्या में भगवान राम की प्राण प्रतिष्ठा का कार्यक्रम लाइव देखा। इस दौरान ज्योतिरादित्य सिंधिया हनुमान मंदिर पर आयोजित इस धार्मिक कार्यक्रम में शामिल हुए और यहां पर लाइव स्ट्रीम के माध्यम से पूरा कार्यक्रम देखा। केंद्रीय मंत्री श्री सिंधिया जब इस कार्यक्रम में शामिल हुए तो वह अपने मोबाइल से लाइव स्ट्रीम देखते रहे और इस दौरान यहां ज्योतिरादित्य के समर्थकों ने भगवान जय श्री राम के नारे जोर-जोर से लगाए।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 January 2024

bhopal, Dr. Narottam Mishra , religious flag

भोपाल। आज का दिन पूरे विश्व में अपना एक अलग इतिहास बनाने वाला दिन है। आज लगभग 500 वर्षो के इंतजार के बाद भगवान श्री राम जी अपने राज महल में पुनः वापस आ रहे हैं। कारसेवकों के बलिदान को आज के दिन के लिए हमेशा याद किया जाएगा। विश्व हिंदू परिषद, और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के वर्षों के संघर्ष और अथक परिश्रम को आज का ये महान दिन हमेशा याद दिलाता रहेगा। भारतीय जनता पार्टी के यशस्वी प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा आज श्री धाम अयोध्या में प्रभु श्रीराम के विग्रह की प्राण प्रतिष्ठा का ये अवसर हम जैसे करोड़ो हिंदुओं की आस्था को मजबूत करने का ये क्षण जीवन आने वाली कई सदियों तक अविस्मरणीय रहेगा।     उक्त उदगार सोमवार को भगवान राम की अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा के शुभ अवसर पर भोपाल के चार इमली क्षेत्र स्थित क्रांतिश्वर शिव राम मंदिर पर आयोजित संगीतमय सुंदर काण्ड पाठ के अवसर पर भाजपा के वरिष्ठ नेता व मध्य प्रदेश के पूर्व गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने कही। डॉ मिश्रा ने कहा कि राम से दूर रहने वाले कही सुखी नही रह सके हैं। उन्होंने सभी प्रदेश वासियों से अपने अपने घरों पर दीपक जलाने की अपील भी की। इससे पहले आज चार इमली क्षेत्र के क्रान्तिश्वर शिव -राम मंदिर में आज 22 जनवरी को श्री धाम अयोध्या में भगवान श्री राम की प्राण प्रतिष्ठा के शुभ अवसर पर मध्य प्रदेश के पूर्व गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा द्वारा संगीतमय सुंदर काण्ड का आयोजन किया गया है। इस अवसर पर डॉ नरोत्तम मिश्रा अपने बंगले से सपरिवार धर्म ध्वजा लेकर ढोल मंजीरों एवं आतिशबाजी के साथ मंदिर तक पहुंचे। जहां उन्होंने पूरे विधि विधान से पूजा अर्चना कर सुंदर काण्ड पाठ शुरू किया। इस अवसर पर भंडारा भी आयोजित किया गया है। इस धार्मिक कार्यक्रम में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वी डी शर्मा, संगठन महामंत्री हितानंद सहित बड़ी संख्या में समाज के वरिष्ठ नागरिक, पार्टी के पदाधिकारी, मीडिया कर्मी व स्थानीय नागरिक शामिल हुए।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 January 2024

bhopal, Chief Minister, Orchha

भोपाल। अयोध्या में नवनिर्मित राम मंदिर में सोमवार को भगवान रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा को लेकर मध्यप्रदेश में जश्न और उत्साह का माहौल है। आज मंदिरों से लेकर घरों तक में राम भक्त कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। अल सुबह से ही प्रदेश के मंदिरों में दर्शनों के भक्त उमड़ रहे हैं। उज्जैन के भगवान महाकाल मंदिर समेत प्रदेश के सभी छोटे-बड़े मंदिरों में विशेष साज सज्जा की गई है। प्रदेशभर में आज दिनभर धार्मिक आयोजन होंगे।     इस मौके पर प्रदेशभर में कहीं अखंड रामयण पाठ तो कहीं सुंदरकांड पाठ का आयोजन किया जा रहा है। प्रदेश के प्रमुख मंदिर ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग, चित्रकूट में विशेष आयोजन किए जा रहे हैं। कई जगह बड़ी स्क्रीन लगाकार प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम का लाइव प्रसारण किया गया। राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह के अवसर पर भोपाल रामरस से सराबोर नजर आया। रामलला की पहली झलक देख श्रद्धालु निहाल हो गए और चारों ओर जय-जय श्रीराम के जयकारे गूंज उठे।     भोपाल के ईंटखेड़ी में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की शाखा में सुबह प्रार्थना के साथ-साथ रामायण की चौपाइयों की भी गूंज रही है। वहीं, ओरछा के राम राजा सरकार मंदिर में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ी है। इस मौके पर ओरछा में विराजित श्रीरामराजा सरकार का विशेष पूजन किया गया। इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव के साथ ही पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी शामिल हुए। कार्यक्रम को लेकर नगर सहित आसपास के लोगों में खासा उत्साह था। विशेष पूजन के अलावा बेतवा नदी के कंचना घाट पर एक लाख दीप जलाए जाएंगे और बेतवा जी की आरती होगी।     शिवराज ने ओरछा मंदिर के बाहर की सफाई पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को सुबह ओरछा पहुंचकर मंदिर परिसर में साफ-सफाई की। इस मौके पर उन्होंने कहा कि आज संपूर्ण देश अभूतपूर्व उल्लास और भक्तिभाव से भरा है। भारतीय जन-मन का सदियों का स्वप्न साकार हो रहा है। आज केवल रामलला की प्राण प्रतिष्ठा ही नहीं, बल्कि भारत के प्राणों की भी पुनर्प्रतिष्ठा हो रही है। जीवन धन्य-धन्य हुआ, करोड़ों-करोड़ रामभक्तों की तपस्या साकार हुई। हमारे राम पधार रहे हैं...!     उन्होंने ओरछा में मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि आज अवधपुरी में रामलला दिव्य और भव्य मंदिर में विराजित हुए। यह दिन देखने के लिए 500 साल तक लगातार संघर्ष चला। इस संघर्ष में अपने प्राणों का बलिदान देने वाले सभी बलिदानियों के चरणों में श्रद्धा के सुमन अर्पित करता हूं।   उज्जैन के महाकाल मंदिर में भस्मारती से पहले राम दरबार की मूर्ति लाकर महाकाल के बगल में विराजित की गई। यहां फूलों की वर्षा के साथ आतिशबाजी की गई। बुंदेलखंड की अयोध्या कही जाने वाली ओरछा नगरी में 5100 दीपक जलाए गए। यहां शाम को विविध आयोजन होंगे।   उधर, कांग्रेस पार्टी द्वारा श्री रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर व्यक्तिगत रूप से कांग्रेसजन अलग-अलग कार्यक्रम कर रहे हैं। इंदौर में सुंदरकांड का पाठ कराया जा रहा है तो भोपाल में हनुमान चालीसा। प्रदेश कांग्रेस के मीडिया विभाग के अध्यक्ष केके मिश्रा ने बताया कि भगवान राम समूचे विश्व के आराध्य हैं। पार्टी के नेता और कार्यकर्ता अपनी निजी स्तर पर खुशी और आस्थाओं के सम्मान का प्रकटीकरण करने के लिए स्वतंत्र है और व्यक्तिगत पूजन अर्चना सभी कर भी रहे हैं।     इस मौके पर इंदौर में हो रहे कार्यक्रमों में अब कांग्रेसी भी बढ़ चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं। सुबह कांग्रेसियों ने राम यात्रा निकाली और कांग्रेस के पूर्व विधायकों ने अपने क्षेत्रों में कार्यक्रम आयोजित करवाए। कांग्रेस पार्षद राजू भदौरिया की टीम, मेघदूत फिटनेस क्लब और योग क्लब मेघदूत के नेतृत्व में मेघदूत गार्डन में रामलला के प्राण प्रतिष्ठा पर्व के पूर्व एक बेहद उम्दा आयोजन किया गया। इस आयोजन और राम रैली में लगभग सम्पूर्ण मेघदूत गार्डन शामिल हुआ।     क्लब के कोऑर्डिनेटर महेश रसाल ने बताया कि मेघदूत गार्डन के प्रातः भ्रमण करने वाले सभी सदस्यों की मंशा अनुरूप इस आयोजन को मूर्तरूप दिया गया। सर्वप्रथम रामलला का पूजन किया गया और उसके पश्चात राम धुनों पर शानदार वर्कआउट हुआ, आजकल जुम्बा के लिए बहुत से ट्रेनर फिल्मी धुनों पर निर्भर रहते हैं लेकिन मेघदूत फिटनेस क्लब के ट्रेनर छाया रसाल, भावना चौधरी, नेहा चौकसे और राज गुप्ता ने यह साबित किया कि राम धुन और शरीर मे ऊर्जा पैदा करने वाले गीत जिसमें "भारत का बच्चा बच्चा जय श्री राम बोलेगा" जैसे गीतो पर भी वर्कआउट किया जा सकता है। मेघदूत गार्डन में एज राम रैली निकाली गई जिसमें करीब 500 सुबह भ्रमण करने वाले लोग शामिल हुए। सुबह घूमने वालो लोगों में भी राम भगवान के प्रति दीवानगी देखी गई।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 January 2024

bhopal, Second conference ,state mineral ministers

भोपाल। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव के मुख्य आतिथ्य एवं केन्द्रीय कोयला, खान और संसदीय कार्य मंत्री प्रहलाद जोशी की अध्यक्षता में 23 जनवरी को इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर भोपाल में दूसरा राज्य खनिज मंत्री सम्मेलन होगा। इसमें 20 राज्यों के खनन मंत्री के अलावा खान मंत्रालय के सचिव व्हीएल कांताराव, मंत्रालय के संगठनों, पांच राज्य सरकार के वरिष्ठ अधिकारी और विभिन्न हितधारक भी इस सम्मेलन में भाग लेंगे। यह जानकारी रविवार को जनसम्पर्क अधिकारी केके जोशी ने दी। जनसम्पर्क अधिकारी केके जोशी ने एक बयान जारी कर बताया कि केन्द्रीय खान मंत्रालय की ओर 23 जनवरी को राज्य खनन मंत्री सम्मेलन के मौके पर “माइनिंग एण्ड बियॉन्ड’’ विषय पर एक प्रदर्शनी का आयोजन किया जायेगा। इसमें मध्यप्रदेश सरकार के अलावा जीएसआई, डीएमएफ, प्रमुख खनन कम्पनियां, निजी गवेषण एजेंसियां और स्टार्ट-अप्स अपनी उपलब्धियों को प्रदर्शित करेंगे। उन्होंने बताया कि सम्मेलन से पहले 63वें केन्द्रीय भू-वैज्ञानिक कार्यक्रम बोर्ड की बैठक 22 जनवरी को होगी। इस बैठक में डीएई, अंतरिक्ष विभाग और पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय जैसे केन्द्रीय मंत्रालयों, ओएनजीसी, एमओआईएल, टाटा स्टील, एचजेडएल और एफआईएमआई भाग लेंगे। नई पहलों और नीतिगत विचार-विमर्श के लिये सम्मेलन में तीन तकनीकी सत्र होंगे। पहले सत्र में वर्ष 2023 के खनन सुधारों, गवेषण अनुज्ञप्ति, महत्वपूर्ण खनिजों और अपतटीय खनन पर प्रस्तुतियां होंगी, जबकि दूसरे सत्र में नेशनल जियो साइंस डेटा रिपोजिटरी (एनजीडीआर) एक पोर्टल, जिसे हाल ही में सार्वजनिक डोमेन में रखा गया है, जिसमें 23 लाख वर्ग किलोमीटर का भू-विज्ञान डेटा एकत्र किया गया है और राष्ट्रीय खनिज खोज न्यास (एनएमईटी), जिसे गवेषण वित्त पोषण के लिये वर्ष 2015 में स्थापित किया गया था, को प्रस्तुत किया जायेगा। अंतिम सत्र में पांच राज्य सरकारें अर्थात झारखण्ड, गुजरात, कर्नाटक, मध्यप्रदेश और ओडिशा खनन में सर्वोत्तम पद्धतियों पर प्रस्तुतियां देंगी। सम्मेलन में सचिव और राज्यों के खनन विभागों के मंत्री 20 निदेशक भाग लेंगे।   उल्लेखनीय है कि सितंबर 2022 में हैदराबाद में पहला इस तरह का सम्मेलन आयोजित किया गया था। इसके बाद दूसरा सम्मेलन भोपाल में आयोजित किया जा रहा है। यह राज्य खनन मंत्री सम्मेलन उस सम्मेलन का दूसरा प्रतिरूप है। खनन क्षेत्र में आत्म-निर्भरता का लक्ष्य तभी साकार हो सकता है, जब राज्य सरकारें और केन्द्र सरकार एक-दूसरे के साथ मिलकर काम करेंगी। यह सम्मेलन इस दिशा में उठाया गया एक कदम है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 January 2024

gwalior,  desire of crores , Narendra Singh Tomar

भोपाल। मध्य प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि "पांच सौ वर्षों से देश के करोड़ों लोगों की यह अभिलाषा थी कि अयोध्या में प्रभु श्री राम का भव्य मंदिर बने और कल यह अभिलाषा पूर्ण होने जा रही है। अनेक साधु-संतों, समाज सेवियों औऱ कार सेवकों के बलिदान के बाद यह दिन देखने को मिला है, यह ईश्वर की बड़ी कृपा है।'     विधानसभा अध्यक्ष तोमर रविवार को मीडिया से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि अयोध्या में भव्य राम मंदिर स्थापित करने में हमारे यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का महत्वपूर्ण योगदान है, मैं उनका हृदय से अभिनंदन करता हूँ। तोमर ने नागरिकों से अपील की है कि वे 22 जनवरी को अपने आने शहर-गांव में धार्मिक कार्यक्रमों में शामिल हो कर राम मंदिर उत्सव में सहभागिता करें।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 January 2024

bhopal,  500 years, Ramlala,Vishnudutt Sharma.

भोपाल। अयोध्या में भव्य मंदिर में प्रभु श्रीराम की प्राण-प्रतिष्ठा के उपलक्ष्य में रविवार सुबह 11 बजे प्रदेश भाजपा कर्यालय स्थित शिव मंदिर में विधि-विधान से पूजन कर अखंड रामायण पाठ प्रारंभ हुआ। प्रदेश भर से आए 108 दिव्यांगजनों द्वारा ब्रेल लिपि में अखंड रामायण पाठ किया जा रहा है। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने विधि-विधान से पूजन कर रामायण का पाठ कर दिव्यांगजनों का सम्मान किया।   प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने कहा कि कल 22 तारीख को दुनिया में भारत एक नया इतिहास लिखने वाला है। 500 साल के लंबे संघर्ष और इंतजार के बाद अयोध्या में भव्य मंदिर में रामलला विराजमान हो रहे हैं। यह हमारे लिए गौरव का क्षण है। कल पूरी दुनिया में दीपावली मनेगी और भगवान श्रीराम के प्राण प्रतिष्ठा को उत्सव के रूप में मनाया जाएगा। इस उपलक्ष्य में रविवार से पार्टी प्रदेश कार्यालय में टॉस्क नेशनल और दिव्यांग मंच द्वारा ब्रेल लिपि में अखंड रामायण पाठ किया जा रहा है। सभी दिव्यांग भाइयों को सम्मान देने का काम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिया है। ये दिव्यांग हो सकते हैं, लेकिन यह भारत की बड़ी ताकत हैं। प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने कहा कि कल सोमवार 22 जनवरी को अयोध्या में श्रीराम की प्राण-प्रतिष्ठ के साथ भारत का डंका पूरे विश्व में बजने वाला है। यह हमारे लिए ऐतिहासिक दिन है, जिसे उत्सव के रूप में मनाना है। 108 दिव्यांगजन कर रहे रामायण पाठ भाजपा प्रदेश कार्यालय स्थित शिव मंदिर में अखंड रामायण का पाठ प्रदेशभर से आए 108 दिव्यांगजन ब्रेल लिपि में कर रहे हैं, जो देश में अपनी तरह का पहला आयोजन है। इसके लिए विशेष रूप से ब्रेल लिपि में रामायण मंगवाई गई है। 22 जनवरी को प्रातः 11 बजे हवन-पूजन के साथ अखंड रामायण पाठ का समापन होगा। उसके उपरांत प्रसादी का वितरण किया जाएगा। बड़ी स्क्रीन पर दिखाया जाएगा अयोध्या के मुख्य आयोजन का लाइव प्रसारण अखंड रामायण का पाठ संपन्न होने के बाद अयोध्या में होने वाले भगवान श्री रामलला के प्राण-प्रतिष्ठा का आयोजन से लाइव प्रसारण भी प्रदेश भाजपा कार्यालय से दिखाया जाएगा। इसके लिए मंदिर के सामने बड़ी स्क्रीन लगाई गई है। यहां पर पार्टी पदाधिकारी व कार्यकर्ता उक्त भव्य आयोजन का लाइव प्रसारण देखेंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 January 2024

bhopal,  value of freedom, Chief Minister Dr. Yadav

भोपाल। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा है कि हम शहीदों का स्मरण करेंगे, तभी हमें आजादी की कीमत पता चलेगी। हजारों-लाखों के बलिदान से यह बेशकीमती आजादी मिली है। इसलिए जिन्होंने आजादी दिलाई है, हम उन अमर शहीदों का पुण्य स्मरण करते रहें। आजादी की लड़ाई में बलिदान होने वाले अमर शहीदों का स्मरण कराते रहें, इससे हमारी युवा पीढ़ी को भी एक नई दिशा मिलेगी। हेमू कालानी ने मात्र 19 साल की उम्र में आजादी के लिये हंसते-हंसते अपने प्राणों की आहुती दी। यह बात मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने रविवार को उज्जैन में अमर शहीद हेमू कालानी के बलिदान दिवस कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कही। मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने अमर शहीद हेमू कालानी की प्रतिमा पर माल्यार्पण व पुष्पांजलि अर्पित कर नमन किया।     सिंधी कॉलोनी स्थित पार्क में हुये कार्यक्रम में उज्जैन सांसद अनिल फिरोजिया, उज्जैन उत्तर विधायक अनिल जैन कालूहेड़ा, महापौर मुकेश टटवाल, विवेक जोशी, रूप पमनानी, सुनील नवलानी, महेश परियानी, पार्षद कैलाश प्रजापति, श्रीमती दिव्या बलवानी, जितेन्द्र कृपलानी सहित अन्य गणमान्य नागरिक मौजूद थे।     मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा कि शहीद हेमू कालानी ने अंग्रेजों से लड़ते हुए खुशी-खुशी फांसी स्वीकार की, पर अपने साथियों के नाम नहीं बताये। डॉ. यादव ने कहा कि अंग्रेजी राज्य में कभी सूर्य अस्त नहीं होता, क्योंकि विश्व के अधिकांश देशों में उनका शासन था। ऐसे शक्तिशाली शासकों से लड़ने के लिये देश में दो उस समय विचारधारायें थीं। एक विचारधारा अहिंसा मार्ग पर चलने वाली महात्मा गांधी जी की थी, दूसरी चंद्रशेखर आजाद एवं भगत सिंह की क्रांतिकारी विचारधारा थी। नेताजी सुभाषचंद्र बोस ने आजादी का नारा दिया था “तुम मुझे खून दो, मैं तुम्हे आजादी दूंगा”।     मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा कि हम सब अमर शहीद हेमू कालानी का स्मरण कर रहे हैं। सरकार की ओर से मैं शहीद हेमू कालानी को श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। उन्होंने आयोजनकर्ताओं से कहा कि शहीद हेमू कालानी के जीवन पर केन्द्रित पुस्तक का प्रकाशन करें एवं फोटो प्रदर्शनी भी लगायें।   डॉ. यादव ने कहा कि उज्जैन की बंगाली कॉलोनी से लेकर अन्य कॉलोनी के पट्टे एवं अन्य समस्याओं का निराकरण प्राथमिकता से किया जायेगा। रूप पमनानी ने कहा कि बीते 27 वर्षों से सिंधी समाज शहीद हेमू कालानी की जयन्ती एवं बलिदान दिवस मनाता आ रहा है। गत 16 वर्षों से मुख्यमंत्री डॉ. यादव कार्यक्रम में स्वयं शामिल होते रहे हैं। उन्होंने कहा कि बलिदानी किसी एक जाति, समाज या धर्म का नहीं होता, वह देश का होता है। समाज को शहीद हेमू कालानी के बलिदान पर बेहद गर्व है।     मुख्यमंत्री डॉ.यादव ने मायापति हनुमान मन्दिर में पूजा-अर्चना की मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव आज उज्जैन के सामाजिक न्याय परिसर स्थित मायापति हनुमान मन्दिर पहुंचे। मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने यहां मायापति हनुमान की पूजा-अर्चना की एवं प्रदेशवासियों के मंगलमय जीवन की कामना की। मुख्यमंत्री आरती में भी शामिल हुए। राजपूत आध्यात्मिक मण्डल द्वारा श्री रामचरित मानस वार्षिक पारायण समारोह आयोजित किया गया। समारोह में मुख्यमंत्री का तिलक और पुष्पगुच्छ देकर स्वागत किया गया। इस अवसर पर उज्जैन सांसद अनिल फिरोजिया, उज्जैन उत्तर विधायक अनिल जैन कालूहेड़ा, महापौर मुकेश टटवाल सहित अन्य जनप्रतिनिधि व राजपूत समाज के गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 January 2024

श्रीराम अयोध्या वापस लौटे , raam , sita , ayodhya ,  praveen kakkar

श्रीराम: मनुष्य से देवत्व की यात्रा   प्रवीण कक्कड़  आप सभी को श्रीराम मंदिर के उद्घाटन की ढ़ेर सारी शुभकामनाएं। वास्तव में श्रीराम ने अपने जीवन में मनुष्य से देवत्व तक की यात्रा को न केवल तय किया है, बल्कि चरित्र के सर्वश्रेष्ठ स्तर को हासिल करने का उदाहरण भी प्रस्तुत किया है। उन्होंने हर स्थिति और व्यक्ति के साथ संबंध निभाकर जीवन का प्रबंधन समझाया है और समाज के अंतिम तबके को अपने साथ जोड़कर समाजवाद को भी परिभाषित किया है।  चलिए चर्चा करते हैं त्रेतायुग में अयोध्या में जन्में श्रीराम के मनुष्य से देवत्व को हासिल करने की यात्रा पर। बालपन में ही अपने छोटे भाईयों के प्रति स्नेह हो या गुरू के आश्रम पहुंचकर शिक्षा ग्रहण करना, बात माता-पिता की आज्ञा पालन की हो या सखाओं से मित्रता निभाने की, उन्होंने हमेशा ही अपने कर्मों से मर्यादा को प्रस्तुत किया और देवत्व की ओर यात्रा पर बढ़ चले। जब गुरूकुल से शिक्षा-दीक्षा पूरी कर श्रीराम अयोध्या वापस लौटे तो वहां ऋषि विश्वामित्र का आगमन हुआ। उन्होंने राजा दशरथ से कहा कि मुझे राम को अपने साथ ले जाना है इस पर राजा चिंतित हो गए और कहने लगे कि आप मेरी सेना ले जाईये, मुझे साथ ले चलिए, आप राम ही को क्यों ले जाना चाहते हैं। इस पर ऋषि विश्वामित्र ने कहा कि यौवन, धन, संपत्ति और प्रभुत्व में से एक भी चीज किसी को हासिल हो जाए तो उसमें अहंकार आ जाता है, आपके पुत्र के पास यह चारों हैं लेकिन फिर भी वह विनम्र है इसलिए इसे ले जा रहा हूं। ऋषि विश्वामित्र के साथ वन जाकर श्रीराम ने राक्षसी ताड़का का वध किया, वहीं शिला बन चुकीं अहिल्या देवी का उद्धार किया। जनकपुरी में वे सीता स्वयंवर में पहुंचे। यहां बड़े-बड़े राजा जिस शिव धनुष को हिला भी न सके थे उसे प्रत्यंचा चढ़ाते हुए श्रीराम ने तोड़ दिया। इससे क्रोधित भगवान परशुराम को श्रीराम ने स्वयं मीठी वाणी बोलकर शांत किया। इसके साथ ही उनका देवी सीता से विवाह हुआ।  आज छोटी-छोटी चीजों पर हम डिप्रेशन में आ जाते हैं, वहीं जरा कल्पना कीजिए जिस युवक का अगली सुबह राजतिलक होने वाला हो और उसे रात में कहा जाए कि उसे वनवास पर जाना है। इस निर्णय को श्रीराम ने कितने रचनात्मक ढंग से लिया और वनवास जाने के लिए सहज तैयार हो गए। उन्होंने जहां एक ओर अपने पिता के वचन की लाज रखी, वहीं मां कौशल्या से कहा कि पिताजी ने मुझे जंगल का राज्य सौंपा है, वहां ऋषियों के सानिध्य में मुझे बहुत सेवा करने का अवसर मिलेगा। इसी कारण वन जाने से पहले जो अयोध्या के राजकुमार थे, वन से लौटकर वह मर्यादा पुरूषोत्तम कहलाए। वनवास के दौरान श्रीराम ने खर, दूषण और सुबाहू जैसे कई राक्षसों का अंत किया। उन्होंने किसी राजा से बात नहीं की न ही किसी राज्य का आश्रय लिया। बल्कि उन्होंने वंचितों से बात की। आदिवासियों से मिले, केवट के माध्यम से गंगा पार की, शबरी के जूठे बेर खाए और समाज के अंतिम तबके से मिले। हर व्यक्ति को समाज की मूल धारा में जोड़ने के लिए श्रीराम ने समाजवाद की स्थापना की। श्रीराम ने शौर्यवान, शक्तिशाली और पराक्रमी होने के बावजूद कभी धैर्य का साथ नहीं छोड़ा और सत्य पर अडिग रहे। इसलिए रावण वध को हम असत्य पर सत्य की जीत के रूप में याद रखते हैं। अयोध्या लौटने पर जब श्रीराम राजा बने तो उन्होंने सदा प्रजा के हित का विचार किया। इसके साथ ही रामराज्य की स्थापना हुई। जो आज भी इतिहास की सबसे श्रेष्ठ प्रशासनिक व्यवस्था के रूप में जाना जाता है। अंत में बस इतना बताना चाहूंगा कि श्रीराम किसी धर्म या देश के नहीं बल्कि श्रीराम तो पूरी कायनात के हैं। श्रीराम तो वह हैं जो हर भक्त के चिंतन में हैं और सृष्टि के कण-कण में हैं। राम तो करूणा में हैं, शांति में राम हैं, राम ही हैं एकता में, प्रगति में राम हैं। राम हम सब के मन में हैं। हम सबकी आस्था में हैं।  अयोध्या में राम मंदिर  वेदों एवं पुराणाों के अनुसार उत्तर प्रदेश की अयोध्या नगरी का इतिहास प्राचीन है। श्रीराम के पूर्वजों के राज्य में अयोध्या राजधानी रही, श्रीराम का जन्म भी यहीं हुआ। श्रीराम ने भी अयोध्या को ही राजधानी बनाकर पूरे राज्य में शासन किया और इसका विस्तार किया। आज यहां श्रीराम के मंदिर का निर्माण पूरा हो गया है, यह सभी रामभक्तों की आस्था का केंद्र है। पूरे देश में इस उद्घाटन समारोह को लेकर उत्साह है और इसे दीपावली की तरह मनाया जा रहा है। मैं सभी रामभक्तों को इस उद्घाटन पर्व की शुभकामनाएं देता हूं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 January 2024

sagar, Dead bodies ,doctor couple

सागर। जिले के बीना में एक डॉक्टर दंपती के शव उनके घर में मिले। पति कुरवाई में तथा पत्नी बीना सिविल अस्पताल में पदस्थ थी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने अग्रिम कार्रवाई शुरू कर दी है।   खुरई रोड स्थित नंदन वाटिका कॉलोनी में रहने वाले डॉ. बलवीर कैथोरिया सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, कुरवाई में पदस्थ थे। पत्नी डॉ. मंजू कैथोरिया बीना सिविल अस्पताल में स्त्री रोग विशेषज्ञ थीं। शनिवार सुबह दोनों के शव उनके घर में पाए गए। पति का शव पंखे से फंदे पर लटका मिला तो पत्नी का शव पलंग पड़ा था। दंपती का बेटा पटना से एमबीबीएस कर रहा है। शनिवार सुबह जब वह घर आया, तो घटना का पता चला। जिसके बाद पुलिस को सूचना दी गई।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 January 2024

bhopal, Conservation of creations,Governor Patel

भोपाल। राज्यपाल मंगुभाई पटेल ने कहा कि सृष्टि की सभी रचनाओं का संरक्षण मानव का दायित्व है। इस दायित्व के निर्वहन के लिए ही प्रकृति ने मानव को मानसिक, शारीरिक शक्तियाँ, करुणा, दया और संवेदनशीलता के भाव दिए हैं, लेकिन मानव ने इन शक्तियों का पराक्रम प्रकृति के साथ खिलवाड़ में किया है। आज चार मौसमों का अनुभव एक दिन में होने लगा है। उन्होंने अपेक्षा की है कि जैव विविधता के महत्व, उपयोगिता और मानव की भूमिका के संबंध में बच्चों को संवेदनशील बनाया जाए। उनके लिए अध्ययन यात्राएं एवं अन्य जनजागृति के कार्यक्रम व्यापक स्तर पर किये जाएं।     राज्यपाल पटेल शनिवार को जैव विविधता बोर्ड और सोसायटी फॉर नेचुरल हीलर्स कंजर्वेटर्स एण्ड टूरिज्म डिपार्टमेंट द्वारा आयोजित लैसर नॉन स्पीशीज ऑफ मध्यप्रदेश के दो दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन के शुभारम्भ कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। सम्मेलन का विषय अल्प ज्ञात (लैसर) जीव-जंतु विविधता के प्रबंधन की चुनौतियाँ और संरक्षण के प्रयास है। सम्मेलन का आयोजन एनवायर्नमेंटल प्लानिंग एण्ड कॉर्डिनेशन ऑर्गेनाइजेशन एप्को, भोपाल के सभागार में किया गया।     राज्यपाल ने कहा कि वर्तमान पर्यावरणीय समस्याएं जैसे ग्लोबल वार्मिंग, क्लाइमेट चेंज, वायु और जल प्रदूषण आदि उसी का नतीजा है। यह समझना जरूरी है कि सृष्टि की संरचना में प्रत्येक जीव की महत्ता है। प्रकृति के सबसे शक्तिशाली जीव होने के कारण मानव का दायित्व है कि वह अपने आनंद के लिए दूसरों के हितों की अनदेखी नहीं करें। प्रकृति से मानव को मिली शक्तियों का पराक्रम संहार में नहीं संरक्षण में प्रदर्शित करना चाहिए।     उन्होंने कहा कि प्रकृति को बनाए रखने में जैव विविधता की भूमिका काफी महत्वपूर्ण है। ईको सिस्टम में हर प्रजाति कोई न कोई क्रिया करती है। बिना कारण न तो वह विकसित हो सकती है और न ही बनी रह सकती है। प्रत्येक जीव-जन्तु ऊर्जा प्राप्त और संग्रहित करता है। कार्बनिक पदार्थ उत्पन्न और विघटित करता है। इस तरह ईको सिस्टम में जल, पोषक तत्वों के चक्रों को बनाए रखकर, अपनी जरूरतें पूरी कर, दूसरे जीवों के पनपने में भी सहयोगी होता हैं। ईको सिस्टम में जितनी अधिक विविधता होगी, प्रजातियों की प्रतिकूल स्थितियों में भी बने रहने की संभावना और उनकी उत्पादकता भी उतनी ही अधिक होगी।     राज्यपाल पटेल ने कहा कि मानव जाति के लिए प्रजातियों की प्राकृतिक विविधता को बनाए रखना, सोशली, इकोनॉमिकली और इकोलॉजिकली सभी दृष्टियों से फायदेमंद है। जरूरी है कि प्रजातियों की विलुप्ति के प्राकृतिक घटकों यथा प्राकृतिक आपदाओं, जलवायु और भूवैज्ञानिक परिवर्तनों से होने वाले अलगाव अथवा स्थान परिवर्तन आदि की चुनौतियों के समाधान खोजे जाएं। जैव विविधता की इन चुनौतियों के अध्ययन के साथ ही हमें प्रजातियों की आनुवंशिक विविधता को भी विस्तार से समझना चाहिए। कॉन्फ्रेंस में विलुप्त प्राय जीव जंतुओं के अस्तित्व को बढ़ाने के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रजातियों के नमूनों और उनके अनुवांशिक डेटा के एक्सचेंज की व्यवस्थाओं पर भी चर्चा की जानी चाहिए।     उन्होंने कहा कि गुजरात राज्य के वन मंत्री के रूप में कार्य अनुभव के कारण उन्हें वन विभाग से संबंधित कार्यक्रमों में शामिल हो कर, विशेष प्रसन्नता होती है। उन्होंने आशा व्यक्त की है कि कांफ्रेंस का चिंतन अंतिम कड़ी तक पहुंचे, इसके लिए सभी को मिल कर प्रयास करना चाहिए।   कार्यशाला के प्रथम दिवस में राज्यपाल पटेल ने जैव विविधता बोर्ड द्वारा प्रकाशित मध्यप्रदेश के वनों में विलुप्तप्राय औषधियां, वृक्ष और प्रजातियाँ पुस्तिका, लैसर नॉन स्पीशीज ऑफ़ मध्यप्रदेश विषय पर वाइल्डलाइफ फोटोग्राफी कांटेस्ट, जैव विविधता संरक्षण के जन नायक पोस्टरों और भोपाल बर्ड एसोसियेशन के वार्षिक कैलेंडर का लोकार्पण किया।     कार्यक्रम में प्रधान मुख्य वन संरक्षक आयोजना डॉ. अतुल कुमार श्रीवास्तव ने कांफ्रेंस की महत्ता और जैव संसाधनों के संरक्षण और सम्वर्धन के प्रयासों की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि सम्मेलन का चिंतन से इस दिशा में और बेहतर कार्य करने की प्रेरणा और मार्गदर्शन मिलेगा।   सदस्य सचिव बायो डायवर्सिटी बोर्ड प्रधान मुख्य वन संरक्षक वीके आम्बाड़े ने कांफ्रेंस की रूप रेखा पर प्रकाश डाला और जैव विविधता संरक्षण के लिए प्रदेश में किये जा रहे कार्यों की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि प्रदेश में कान्हा राष्ट्रीय उद्यान में बारहसिंगा को सफलतापूर्वक पुनर्स्थापित किया गया है। कांफ्रेंस में लगभग 150 प्रतिभागी भाग ले रहे हैं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 January 2024

bhopal, Animal slaughter houses , Madhya Pradesh

भोपाल। अयोध्या में भगवान श्रीराम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा के कार्यक्रम को देखते हुए प्रदेश के नगरीय क्षेत्रों में सोमवार, 22 जनवरी को सभी पशुवध गृह, माँस-मछली की दुकाने बंद रहेंगी। इस संबंध में शनिवार को नगरीय विकास विभाग ने आदेश जारी कर नगर पालिक निगम आयुक्त, मुख्य नगर पालिका अधिकारी, नगर पालिका परिषद और नगर परिषदों को निर्देश जारी किये हैं।     नगरीय विकास मंत्री विजयवर्गीय की अपील श्रीराम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम को देखते हुए प्रदेश के सभी नगरीय क्षेत्रों में विशेष स्वच्छता अभियान चलाया जा रहा है। अभियान के दौरान मंदिर परिसरों में स्वच्छता कार्यक्रम में नागरिकों की भागीदारी सुनिश्चित की जा रही है। नगरीय विकास मंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने स्वच्छता अभियान में स्थानीय जनप्रतिनिधियों के साथ नागरिकों की अधिक से अधिक भागीदारी सुनिश्चित करने के निर्देश स्थानीय निकायों के अधिकारियों को दिये हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 January 2024

bhopal, Five water boats burnt ,Water Sports Academy

भोपाल। राजधानी के जहांगीराबाद क्षेत्र में स्थित स्पोर्ट्स एकेडमी में शनिवार दोपहर आग लग गई। यहां कचरे के ढेर से आग से उठी लपटों की चपेट में आकर पांच वाटर ड्रैगन बोट जलकर खाक हो गई। आगजनी की इस घटना में लाखों के नुकसान का अनुमान है। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची नगर निगम की फायर ब्रिगेड की टीम आग बुझाने का प्रयास कर रही है। हादसे में कोई जनहानि नहीं हुई है।     जानकारी अनुसार जहांगीराबाद स्थित वॉटर स्पोर्ट्स एकेडमी में शनिवार दोपहर करीब 12 बजे आग लग गई। वॉटर स्पोर्ट्स एकेडमी राज्य सरकार के खेल विभाग की है। यहां शनिवार सुबह 10 बजे तक 40 से अधिक खिलाड़ी स्पोर्ट्स एक्टिविटी करके गए थे। इसके बाद जिस जगह पर बोट रखी थीं वहां कचरे के ढेर में आग लग गई। घटना के बाद अफरा तफरी मच गई। पहले लोगों ने बाल्टियों से पानी डालकर आग पर काबू पाने की कोशिश की, लेकिन सफलता नहीं मिली। फायर ब्रिगेड ने करीब एक घंटे में आग पर काबू पाया। एकेडमी के अधिकारी भी मौके पर पहुंचे। आगजनी में पांच ड्रैगन बोट जल गईं। एक बोट की अनुमानित कीमत पांच लाख रुपये तक है। खेल विभाग के अधिकारियों ने आग लगने के कारणों की जांच कराने की बात कही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 January 2024

bhopal, Implementation of welfare schemes,Minister Krishna Gaur

भोपाल। पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) कृष्णा गौर ने कहा कि पिछले नौ वर्षों में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सरकार ने विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं को प्रारंभ किया और इन योजनाओं के क्रियान्वयन से लोगों के जीवन में सकारात्मक बदलाव आया है।     राज्य मंत्री कृष्णा गौर शुक्रवार को भोपाल के कोलुआ (वार्ड-74) में विकसित भारत संकल्प यात्रा को संबोधित कर रही थीं। उन्होंने कहा कि वर्ष 2014 में प्रधानमंत्री मोदी ने सरकार में आने के बाद गरीब, किसान, महिला और युवाओं के विकास के लिये अनेक निर्णय लिये। उन्होंने विभिन्न कल्याणकारी कार्यक्रमों की शुरूआत की। उनके परिणामस्वरूप मात्र नौ वर्षों में 25 करोड़ से अधिक गरीबी की रेखा के नीचे जीवन-यापन करने वाले लोग, गरीबी रेखा से ऊपर उठे हैं। इसी प्रकार महिलाओं की सुविधा के लिये 10 करोड़ बहनों को गैस कनेक्शन दिये गये हैं। इसके साथ ही देश में 4 करोड़ गरीब परिवारों को प्रधानमंत्री आवास योजना में पक्के आवास दिये गये। प्रधानमंत्री मोदी के सरकार में आने के बाद गरीबों की बात सुनी जा रही है और देश में उनका सम्मान बढ़ा है।     राज्य मंत्री कृष्णा गौर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश का दुनिया में सम्मान बढ़ा है। उन्होंने कहा कि 22 जनवरी को अयोध्या में श्रीरामलला की मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा कार्य होने जा रही है। हम भाग्यशाली हैं कि हम इस अवसर के साक्षी बनेंगे।     विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं के क्रियान्वयन से लोगों के जीवन में आ रहे बदलाव की जानकारी शिविर में मौजूद हितग्राहियों ने ली। मंजू सिंह धाकड़ और रानी चौहान ने प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना में मिले ऋण से व्यवसाय शुरू करने की सफलता की कहानी बताई। मंजू सिंह ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान उनके परिवार के पास कोई रोजगार नहीं था। पति की प्रायवेट जॉब छूट चुकी थी, ऐसे में उन्होंने मात्र 10 हजार रुपये का ऋण प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना में प्राप्त कर एक छोटी सी दुकान की शुरुआत की। एक साल में बिना ब्याज के मिले 10 हजार रुपये को वापस किया और पुन: 20 हजार रुपये ऋण मिला। 20 हजार रुपये का ऋण वापस करने पर उन्हें 50 हजार रुपये का ऋण मिला। इससे उनकी पूंजी बढ़ी और अब उनका व्यवसाय ठीक चल रहा है। रानी चौहान ने बताया कि उन्होंने प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना में ऋण प्राप्त कर सिलाई सेंटर शुरू किया है।     राज्य मंत्री कृष्णा गौर ने कहा कि विकसित भारत संकल्प यात्रा में सभी विभागों के अधिकारी मौजूद हैं। जिन पात्र व्यक्तियों ने योजनाओं का लाभ नहीं लिया है, वे योजनाओं का लाभ प्राप्त करें। उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना, संबल योजना, आयुष्मान योजना आदि के हितलाभ हितग्राहियों को वितरित किये। इस अवसर पर पार्षद शकुन सिंह लोधी, विकास पटेल, राजू राठौर, गणमान्य नागरिक और अधिकारी-कर्मचारी मौजूद थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 January 2024

bhopal, Congress , Congressmen

भोपाल। मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी मुख्यालय में शुक्रवार को प्रदेश कांग्रेस की अनुशासन समिति की बैठक संपन्न हुई। बैठक में हाल ही में संपन्न विधानसभा चुनाव के दौरान कांग्रेसजनों द्वारा पार्टी प्रत्याशियों के विरुद्ध चुनाव लड़ने वालों की हुई प्राप्त शिकायतों को लेकर कांग्रेस की अनुशासन समिति में आज बड़ा निर्णय लिया गया, जिसके तहत प्रदेश भर के लगभग 150 कांग्रेसजनों को कारण बात नोटिस जारी कर उनसे उक्त गतिविधियों को लेकर 10 दिनों के भीतर स्पष्टीकरण मांगा गया है।   मप्र कांग्रेस अनुशासन समिति के अध्यक्ष एवं प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कोषाध्यक्ष अशोक सिंह ने शुक्रवार को बताया कि पार्टी विरोधी कार्य करने वालों द्वारा यदि 10 दिवस के भीतर में सकारात्मक जवाब प्राप्त नहीं होता है तो कांग्रेस पार्टी द्वारा उनके विरुद्ध अनुशासनहीनता की कार्रवाई का निर्णय लिया जाएगा। अशोक सिंह ने बताया कि गत् संपन्न विधानसभा चुनाव में पार्टी उम्मीदवार के खिलाफ जो व्यक्ति चुनाव लड़े थे उन्हें पूर्व में ही पार्टी द्वारा निष्कासित किया जा चुका है, उस निर्णय पर भी आज कांग्रेस की अनुशासन समिति ने अपनी मोहर लगा दी है।   कांग्रेस की अनुशासन समिति की बैठक में समिति के सदस्य मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष एवं संगठन प्रभारी राजीव सिंह, पूर्व मंत्री एन.पी. प्रजापति, सज्जन सिंह वर्मा, पी.सी. शर्मा, सईद अहमद