Since: 23-09-2009

  Latest News :
ज्योतिरादित्य सिंधिया कोरोना से संक्रमित.   मालगाड़ी से कुचल कर 16 मजदूरों की मौत.   साद के खिलाफ गैरइरादतन हत्या का मामला.   कोरोना पर शिवपुरी की जिज्ञासा का गाना.   पीएम मोदी ने सर्वदलीय बैठक में दिए संकेत.   तब्लीगी जमात के लोगों ने फेंकी पेशाब भरी बोतलें.   सिंधिया बोले टाइगर अभी जिंदा है.   कांग्रेसी नेता की जुबान फिसली.   कलेक्टर मीणा ने किया किल कोरोना शुरू .   चचेरे भाइयों ने भाई को गोली मारी.   मध्य प्रदेश में किल कोरोना अभियान .   खेत मालिक के बेटे ने की बटाईदार की हत्या.   सड़क हादसे में पति पत्नी की मौत.   सीएम बघेल से नहीं मिल पाया तो आग लगाई.   बस्तर के मोस्टवॉंटेड की सूचि.   आदिवासियों और पुलिस के बीच टकराव की स्थिती.   भूपेश सरकार के खिलाफ प्रदर्शन.   क्या इतने क्रूर हैं छत्तीसगढ के नेता.  

सिवनी News


  Government negligence

सड़े गेहू को  चुपचाप लगाया  गया ठिकाने   मध्यप्रदेश में सरकारी कारिंदों की लापरवाही से हर बार बारिश में बड़ी मात्रा में गेहूं खराब हो जाता है |  इसके बावजूद सरकारें कुछ भी सिखने को तैयार नहीं हैं | सिवनी में इस बार भी  सरकारी सिस्टम की लापरवाही से गेहूं सड़ गया  | जिसे चुपचाप ठिकाने लगा दिया गया है |  देश में बेहतरीन क्वालिटी का गेहूं उत्पादन करने वाला राज्य मध्य प्रदेश है यहाँ गेहू की बम्फर पैदावार होती है | महाकौशल  का सिवनी हमेशा बेहतर और उच्च क्वालिटी के गेहू उत्पादन के लिए जाना जाता है | लेकिन हम जो आपको तस्वीर दिखाने जा रहे है ये आपको गुस्सा दिलाने वाली हो सकती  हैं सड़े हुए सरकारी सिस्टम की लापरवाही  के चलते  सैंकड़ों   किविंटल अनाज सड गया जो अब किसी उपयोग के लायक नहीं रहा  | अनाज की ऐसी तस्वीरें देख कर आपको भी गुस्सा आ जाएगा |  बारिश की वजह से सड़ गए गेहूं को ठिकाने लगाने के लिए जेसीबी का इस्तेमाल किया गया | जी हां ऐसी तस्वीरें आपने पहले कभी नही देखी होंगी जहां बारिश में भीगा लगभग ढाई सौ क्विंटल गेहूं जेसीबी से उठाकर ठिकाने लगाया गया।सिवनी के गणेशगंज सोसाइटी में ढाई सौ क्विंटल गेहूं बारिश के पानी में भीगकर सड़ गया  | जिसके बाद इस सड़े गेहू से बदबू आने लगी  | बदबू की वजह से आसपास के लोगों को काफी मुश्किल होने लगी |  ऐसे में इस गेहूं को हटाने  के लिए जेसीबी और ट्रेक्टर का इस्तेमाल किया गया |  सिवनी जिले के खरीदी केंद्रों में किसान के  गेहू  का क्या हश्र हो रहा है ये इन दृश्यों को देखकर समझा जा सकता है| ये दृश्य सरकारी दावों की पोल खोलने के लिए भी पर्याप्त हैं |    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 June 2020

   Corona positive

महिला में नही हैं कोरोना के कोई  लक्षण   लखनादौन विकासखंड मुख्यालय में दिल्ली से आई एक महिला का सेंपल कोरोना पाजिटिव पाया गया है  |  हालाँकि महिला में अभी तक कोरोना के कोई भी लक्षण नहीं पाए गए हैं   प्रशासन ने महिला के संपर्क में आये लोगों की पूछताछ शुरू कर दी है |  सिवनी कलेक्टर राहुल हरिदास ने बताया कि बीते 13 जून को एक महिला दिल्ली से जबलपुर होते हुए लखनादौन पहुंची थी |   जिसके आने की सूचना मिलने पर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने 14 जून को कोरोना सेंपल लिया |  और लखनादौन से यह सेंपल जांच  के लिए जबलपुर भेजा गया था |  जिसकी रिपोर्ट कोरोना पाजिटिव  आई है | बताया जा रहा है की महिला लखनादौन में एक वैवाहिक कार्यक्रम में शामिल होने आई थी  | तथा धनौरा विकासखंड के ग्राम सलेमा में पहुंचकर उक्त कार्यक्रम में शामिल हुई थी |  रिपोर्ट आने के बाद प्रशासन द्वारा उक्त महिला के संपर्क को खोजने का प्रयास किया जा  रहा है | बताया जा रहा है  की महिला  में कोरोना के कोई लक्षण नहीं पाए गए है  |     

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 June 2020

 Hitech Farmer Satyagraha

सोशल मीडिया में अपलोड कर रहे हैं वीडियो शुरू होगा अन्नदाताओं का अन्न त्याग आंदोलन   मध्यप्रदेश में मक्का की खरीदी को लेकर  किसान  परेशान हो रहा है | आधे रेट पर फसल बेचने पर मजबूर किसानों ने अब सत्याग्रह करने  का मन बना लिया है | इस आंदोलन की शुरुवात सिवनी जिले से हो रही है | कोरोना के चलते  किसान सोशल मीडिया के माध्यम से आंदोलन का वीडियो उपलोड कर रहे हैं | मध्यप्रदेश के सिवनी जिले में मक्के की बम्फर फसल होती है  | किंतु इस बार किसान अपनी फसल की लागत भी नही निकाल पा रहे है | जिसका सबसे बड़ा कारण  2019 में केंद्र सरकार द्वारा  विदेशों  से मक्के को आयात करना बताया जा रहा है | अब किसान सरकार से msp की मांग कर रहा है | सही रेट पाने के लिए किसानअब सत्याग्रह  जैसे आंदोलन की तरफ बढ़ने लगा है | जिसकी शुरुवात  सिवनी  से हो गई है |  कोरोना महामारी के चलते  सिवनी के किसानों ने सत्याग्रह के लिए एक नया हल निकाला है |  किसानो  ने सोशल  मीडिया  पर अपनी तस्वीर सत्याग्रह के बैनर के साथ साझा किया जा रहा  है | अपनी मांगों के  वीडियो और डीपी  बनाकर वे सोशल मीडिया में अपलोड कर रहे है |  किसानों का कहना है कि एक किविंटल मक्के की फसल में उन्हें 1400 से 1500 की लागत लगती है | और आज वही मक्का उन्हें  बाजार में 900 रुपये में बेचना पड़  रहा है|  किसानो का कहना है की सरकार किसानो की बात नहीं सुन रही है | अब अन्न दाताओं के लिए अन्न त्याग आंदोलन चलेगा | किसानो ने आरोप लगाया की अभी तक फसल बेचने के लिए उनको मेसेज नहीं आया | और उनके पास अब अगली फसल के बुवाई के  लिए धन की वयवस्था भी नहीं है |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 June 2020

 Grasshopper crew knock

प्रशासन अलर्ट भगाने के किये जा रहे प्रयास    सिवनी के लखनादौन में टिड्डी दल के दस्तक देने के बाद प्रशासन और किसान अलर्ट हो गए हैं और इन्हें भगाने के उपाए कर रहे हैं |  ये टिड्डी दल बालाघाट की तरफ से सिवनी पहुंचा है  |  लखनादौन विकासखण्ड  के उपनगरीय क्षेत्र धूमा के आस पास की पंचायतों भौरगढी, चरगाँव मे भारी तादाद में   टिड्डी दल ने दस्तक  दे दी है  |   इस कारण इलाके के किसान परेशान हैं | टिड्डी दल  ने तेज हवाओं के साथ बालाघाट  जिले से प्रवेश  किया  | अधिकारियों ने  बताया कि टिड्डी दल के आने की पूर्व सूचना के आधार पर पहले से ही तैयारियां की जा चुकी थी  |  इसके लिए जिन किसानों के खेतों में सब्जियों फसल खेतों में र्है, उनको ध्वनि विस्तारक यंत्र रखने व टिड्डी दल के आने की सूरत में बजाने की हिदायत दी गई थी  |  भौरगढी और चरगाँव के खेतों में रविवार की रात में टिड्डी दल ने अपनी दस्तक दी   |  टिड्डी दल के सिवनी जिले से से लखनादौन की सीमा से घँसोर की सीमा में प्रवेश कर रहा है  | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 June 2020

 National Highway closed

अगले 60 दिनों तक बंद रहेगा ये हाइवे   देश के उत्तर- दक्षिण सड़क कॉरिडोर को जबलपुर-नागपुर महानगरों को जोड़ने वाले नेशनल हाइवे सात को 60 दिनों के लिए बंद किया गया है | इस दौरान यहां निर्माण कार्य चलेगा | इस दौरान लोगों को वैकल्पिक मार्गों का उपयोग करना पडेगा |  सिवनी कलेक्टर डॉ राहुल हरिदास के आदेश के बाद   देश के उत्तर- दक्षिण सड़क कॉरिडोर को जबलपुर-नागपुर महानगरों को जोड़ने वाले सिवनी से खबासा के बीच के हाइवे को अगले   60 कार्यदिवस के लिए पूर्णतः बन्द किया गया है |  ऐसा कुरई घाटी इलाके से पेंच नेशनल पार्क से लगे हिस्से के कुल 6 किलोमीटर फोरलेन सड़क के निर्माण के लिए किया गया है | दरअसल अटल सरकार के समय पास  हुए इस फोरलेन परियोजना के इस हिस्से पर पेंच नेशनल पार्क एवं सघन वन क्षेत्र होने की आपत्ति को लेकर रोक दी गयी थी | अब इस सड़क को वन्य जीव के  अनूकूल डिजाइन करने के बाद संशोधित करते हुए  स्वीकृत की गई  है  |  यह इलाका प्राकृतिक रूप से ऐसा इलाका साबित हुआ जहा पर  अन्य वैकल्पिक मार्ग बनाना सम्भव नहीं है  | इसलिए  सड़क निर्माता कंपनी दिलीप बिल्डकॉन के आवेदन पर सिवनी कलेक्टर ने तकनीक टीम के सुझाव के अनुरूप मार्ग को आगामी 60  दिनों  के लिए पूर्णतः बन्द करने के आदेश दे दिए हैं  | कलेक्टर के निर्देश  के बाद  सड़क बन्द होने पर NHAI ने अब सिवनी की ओर से नागपुर महाराष्ट्र के लिए यात्रियों व ट्रांसपोर्टर को व्हाया छिन्दवाड़ा से सावनेर होते हुए अथवा बालाघाट, कटंगी होते हुए या अरी से होते हुए वैकल्पिक मार्ग सुझाये है | वहीं  दिलीप बिल्डकॉन सड़क निर्माता कंपनी का कहना है कि यह सड़क एक विशाल एलिवेटेड हाइवे है  | जो जंगल के इस हिस्से पर अधिकांश रूप से फ्लाई ओवर रूप में है जिसको बनाए जाने के लिए एक तरफ गहरी खाई को भरना पड़ा है तो दूसरी तरफ बड़े पहाड़ को काटकर वन्य प्राणियों के लिए अण्डर पास भी बनाये जाने हैं | जिस पर 2 माह से ज्यादा का भी समय लग सकता है तब तक लोगों को यात्रा हेतु वैकल्पिक मार्ग को आवश्यक रूप से चुनना होगा  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 June 2020

 Flower rain

पुलिस की सख्ती के कारण सुरक्षित है सिवनी   सिवनी में कोरोना  से जंग लड़ रहे सुरक्षा  कर्मियों का लोगों ने फूलों से स्वागत किया  | सभी लोगों ने अपने घरों से पुलिस वालों का सम्मान किया और उनके कार्य की सराहना की  |  पूरे देश में लॉक डाउन का पालन कराने की जवाबदारी पुलिस प्रशासन की है | कोरोना के इस खतरे के बीच  सुरक्षाकर्मी हर पल सडकों पर तैनात हैं  | सिवनी में पुलिस के कार्यों की जनता ने तारीफ की  | और फूलों से स्वागत किया  |  लोगों ने अपने घरों से पुलिस वालों पर फूल बरसाए और धन्यवाद किया  |  गौरतलब है की सिवनी में अभी तक कोरोना का एक भी केस सामने नहीं आया है  | सिवनी कोरोना महामारी से पूरी तरह सुरक्षित है  | जिसका पूरा श्रेय जनता कोरोना फइटर्स को दे रही है | पुलिस विभाग की सख्ती के कारण सिवनी को सुरक्षित रखा जा सका है |  इसके लिए सभी ने पुलिस और प्रशासन का सम्मान किया  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 April 2020

  Misdemeanor

दुष्कर्म के आरोपी युवक को पहुंचाया जेल   देश इस समय कोरोना संकट से जूझ रहा है ऐसे में भी दरिंदे अपनी दरिंदगी से बाज नहीं आ रहे हैं  |  सिवनी में एक युवक ने पांच साल की मासूम के साथ दुष्कर्म का प्रयास किया |  मामला पुलिस तक पहुंचा तो आरोपी को तत्काल सीखचों के पीछे भेजा गया  |  सिवनी जिले में लॉक डाउन  के दौरान  लोगों को घरों में रखने का प्रशासन प्रयास कर रहा है   | इस दौरान घंसौर में  5 वर्षीय मासूम के साथ पड़ोस में रह रहे  रिश्तेदार ने दुष्कर्म करने का प्रयास  किया |  बच्ची के शोर मचाने से इस मामले का खुलासा हुआ  | आरोपी युवक   घर पर खेल रही मासूम को बहला फुसला कर अपने घर गया और  घटना को अन्जाम देने का प्रयास किया  |  इस घटना की जानकारी घंसौर पुलिस को लगी तो  पुलिस ने  तत्काल कार्रवाई करते हुए आरोपी युवक संजय चौधरी को गिरफ्तार कर लिया  केस रजिस्टर्ड कर उसे जेल भेज दिया  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 April 2020

Tiger hunted

आक्रोशित ग्रामीणों ने फॉरेस्ट की गाडी जलाई   पेंच राष्ट्रीय उद्यान  में   महुआ बीनने गई युवती पर बाघ ने हमला बोल दिया  | युवती को मारकर बाघ जंगल के भीतर ले गया | ऐसे में लोगों का शोर सुनकर बाघ युवती का शव छोड़कर भाग गया  | इस घटना के बाद ग्रामीणों ने वन विभाग की गाडी में आग लगा दी  |  पेंच राष्ट्रीय उद्यान के खवासा बफर के खम्बा गांव में खेत से लगे जंगल में  महुआ बीनने गई युवती 18 साल की युवती नीलकली  को बाघ ने अपना  शिकार बना लिया है | युवती का शिकार करने के बाद बाघ शव को करीब 300 मीटर दूर जंगल तक घसीटकर ले गया |  युवती की  चीख पुकार  सुनकर मृतिका की मां, परिजन व ग्रामीणों ने शोर मचाया और जंगल की ओर दौड़े |  इसके शव को मौके में छोड़कर बाघ जंगल लौट गया  | वन अमले की कार्यप्रणाली व घटना से आक्रोशित ग्रामीणों ने विरोध प्रदर्शन करते करीब तीन घंटे तक हंगामा किया  |  इस दौरान आक्रोशित ग्रामीणों ने खवासा रेंजर के सरकारी   वाहन को आग के हवाले कर दिया |  मौके पर पहुंचे पुलिस बल व राजस्व अधिकारियों ने समझाइश देकर ग्रामीणों शांत कराया |  खेत के नीचे स्थित नाले में मौजूद बाघ ने संभवत: आहट पाकर युवती पर हमला कर शिकार लिया और शव घसीटकर जंगल में ले गया  | लेकिन शव को बाघ  |   अपना निवाला नहीं बना सका |  इससे पहले ग्रामीणों के शोरगुल ने बाघ को जंगल लौटने पर मजबूर कर दिया  |   पेंच नेशनल पार्क क्षेत्र संचालक विक्रम सिंह परिहार ने बताया  मृतिका के स्वजनों को 5 हजार रूपये की तत्कालिक सहायता राशि उपलब्ध करवाई गई है |   पोस्ट मार्टम रिपोर्ट मिलते ही परिवार को 4 लाख रूपये की सहायता राशि  उपलब्ध करा दी जाएगी  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 April 2020

 Mouth mask delivery

माउथ मास्क एवं सोप स्ट्रीप का किया वितरण   सिवनी  में मातृशक्ति संगठन यूथ विंग  | समर्पण युवा संगठन ने कोरोना वायरस से सतर्क रहने की अपील करते हुए, नगर का भ्रमण किया एवं आम जनमानस से आग्रह किया कि कोरोना वायरस से डरना नहीं है, बल्कि सजग और सावधान रहना है  |    सर्वप्रथम संगठन ने लक्ष्मी नारायण मंदिर में जगत के पालनहार भगवान विष्णु जी से प्रार्थना की गई कि, इस महामारी से विश्व की रक्षा करें  |  संगठन ने बस स्टैंड , नगरपालिका, फ्रूट मार्केट, सब्जी मंडी, दुर्गा चौक, बुधवारी बाजार नेहरू रोड़, शुक्रवारी चौक  | छोटी मस्जिद चौक होते हुए नगर के ह्रदय स्थल बाहुबली चौक तक कोरोना जागरूकता अभियान चलाया  |  सब को समझाईश दी गई की बार बार हाथ धोएं,सर्दी खाँसी बुखार होने पर तत्काल डॉक्टर से संपर्क करें, भीड़ वाले स्थान पर जाने से बचें ,फेस मास्क का प्रयोग करें, ताजा गर्म भोजन ग्रहण करें  | संगठन की सदस्यों ने अपने हाथ से बनाए मास्क का   वितरण अपने घरों में भलीभांति स्टरलाइज्ड करके किया | संगठन अध्यक्ष सीमा चौहान ने  प्रशासन से अपील करते हुए   मांग की है कि मास्क की काला बाजारी रोकने के लिए कठोर कदम उठाये जाने चाहिए  | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 March 2020

 ACCIDENT

एक बाइक थी बहुत तेज रफ़्तार में    सिवनी  के लखनादौन  में गणेशगंज से गुंगवारा रोड पर दो मोटरसाइकिल की भिंडत हो गयी |  जिससे  बाइक  सवार 3 लोगो को गंभीर चोटें आई है |  इन में से एक बाइक तेज रफ़्तार में थी जिसे कारण यह हादसा हुआ |  जानकारी अनुसार गणेशगंज से गुंगवारा की ओर जा रही तेज रफ़्तार मोटरसाइकिल सामने से आ रही एक दूसरी मोटरसाइकिल से भिड़ गई   | जिससे एक गाड़ी में सवार तीन लोगों में से 2 लोगो की हालत गंभीर है  |  वही दूसरी बाइक पर सवार गाड़ी चालक भी गंभीर रूप से घायल हो गया  |  जिन्हें मोके पर पहुचे ग्रामीणों की सहायता से 108 पर सूचना देने के बाद भी नही पहुँचते देख प्रायवेट गाड़ी से लखनादौन अस्पताल पहुँचाया गया हैं  | वही घटना की जानकारी तुरंत ही हंड्रेड डायल को देने के बाद वह अपने गंतव्य स्थान लखनादौन से लगभग आधे घंटे बाद पहुँची तब तक घायलों को स्थानीय लोगो की सहायता से उपचार हेतु अस्पताल में दाखिल करा दिया गया था | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 March 2020

 Roaring monk

सनातन मूल्यों के अनुरूप  मंदिर निर्माण होगा   परमहंसी आश्रम झौतेश्वर में शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती की अगुवाई में  सन्त समेलन हुआ  | जहाँ  सनातन मूल्यों के अनुरूप रामलला के मंदिर निर्माण की बात कही ओर भव्य राम मंदिर निर्माण के पहले राम भगवान को चन्दन की लकड़ी से निर्मित सोने की परत वाले सिंघासन में विराजमान किये जाने की बात रखी गई  |  संत सम्मेलन में राम मंदिर निर्माण ट्रस्ट में शंकराचार्य  की अवमानना पर भी सन्तो ने नाराजगी व्यक्त की  | शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद   ने आशंका व्यक्त करते हुए सन्देश दिया कि राम हमारी आस्था हैं |  हमारे भगवान हैं  | पर मंदिर निर्माण ट्रस्ट में वे लोग है जो राम को मनुष्य मानते है | आज जब हमें हमारे आराध्य श्री राम के मंदिर निर्माण का अवसर मिला है तो सन्तो की यह अभिलाषा है कि मंदिर सनातन परंपरा और वस्तु के आधार पर बने | पर कुछ लोग है जो सनातन आस्था के विपरीत राम को एक मनुष्य मान कर हमारे भगवान श्री राम के मंदिर निर्माण करा रहे है  | जिसपर शंकराचार्य स्वरूपानन्द सरस्वती ने आपत्ति दर्ज कराई  |  इस सम्मेलन के दौरान आयोजन में  पुरी  पीठ के शंकराचार्य के प्रतिनिधि |   गौवर्धन पीठ के शंकराचार्य के प्रतिनिधि. | नाथ सम्प्रदाय, कांची काम पीठ के प्रतिनिधि  |  निरंजनी अखाड़ा, अग्नि अखाड़ा, हिमांचल प्रदेश, नेपाल के डंडा महाराज सहित भारत वर्ष के अनेक साधु संत शामिल हुए  | आयोजन में सिवनी .नरसिहपुर .जबलपुर .छिंदवाड़ा .बालाघाट .भोपाल सहित प्रदेश के   हिंगलाज सेना .आध्यात्मिक उत्थान संस्था | ब्राम्हण महासभा सहित अनेक हिन्दू संगठन के प्रतिनिधियो ने भाग लिया  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 March 2020

 Tendu rescue

रेस्क्यू कर तेंदुए को जंगल की ओर भगाया गया   सिवनी में ग्रामीण  उस वक़्त दहशत में आ गए  | जब एक तेंदुआ गाँव में घुस आया और उसने दो बकरियों को अपना  शिकार बना लिया  | बमुश्किल वन विभाग की टीम ने रेस्क्यू कर तेंदुए  को गाँव से जंगल की ओर भगाया |  सिवनी में  बरघाट छेत्र के गाँव जंगल टोला में  अचानक एक घर मे तेंदुआ जा घुसा |   तेन्दुए ने पहले दो बकरियों का शिकार कर अपनी भूख मिटाई |  फिर कई घण्टे तक उसी मकान में कैद रहा |  जिसे आधी रात को पेंच पार्क की एक्सपर्ट टीम ,पुलिस विभाग और वन विभाग के कर्मचारियों की मदद  से आज़ाद कराया  |  बताया जा रहा है की  रात के अँधेरे में   भूखे तेन्दुए के गाँव में  दस्तक दी  | तेंदुए के घुसने की जैसे ही खबर लगी | पूरे गाँव वालों ने  घर के दरवाजे बंद कर लिए |  और वन विभाग को सूचना दी  |  सूचना मिलते ही पुलिस विभाग औऱ  पेंच पार्क से एक्सपर्ट टीम  पहुची  | कई घण्टे की मशक्कत के बाद तेंदुए को रात दो बजे घर से निकाला गया  | इसके बाद तेंदुआ   खुद  ही जंगल की ओर भाग  गया |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 March 2020

 Vehicle checking

वाहनों पर कार्यवाई के साथ दस्तावेज रखने के निर्देश   सिवनी में परिवहन विभाग ने सघन वाहन चेकिंग अभियान चलाया |  और कई वाहन जब्त किये |  चेकिंग अभियान में विभाग के अधिकारीयों  ने सभी वाहन चालकों को दस्तावेज दुरुस्त रखने के निर्देश दिए |  सिवनी के लखनादौन में परिवहन विभाग ने   वाहन चैकिंग करते हुए  ताबड़तोड़ कार्यवाही की  | इसी के तहत  क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी देवेश बाथम के नेतृत्व में | लखनादौन के कई मुख्य मार्गों पर वाहन चैकिंग की गई |  इस दौरान धूमा निवासी राहुल शिवहरे की क्रेशर से  | एक जेसीबी और  एक डंफर पर कर बकाया होने के कारण  जब्त कर लिया गया  |  साथ ही सम्बन्धित वाहनों के दस्तावेज दुरुस्त रखने के निर्देश भी वाहन स्वामियों को दिए गए |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 March 2020

 PRINCIPAL DRUNK

शराब नीति का असर दिख रहा शिक्षा पर शिक्षा पर शराब नीति पड़ रही है भारी     कमलनाथ सरकार की शराब नीति का असर अब स्कूलों में भी दिखने लगा है  | ऐसा लग रहा है मानो प्रदेश में शराब नीति  शिक्षा पर ज्यादा भारी पड़ रही है   मध्यप्रदेश की शिक्षा व्यवस्था किस स्तर तक पहुँच गई है  | इसका अंदाजा आप इसी से लगा सकते हैं की  | स्कूल का प्रभारी प्रिंसिपल शराब पी कर नशे में  स्कूल आता है | नशे में धुत यह प्रिंसिपल कभी अपने कदम तो | कभी अपने कपड़े संभालता नजर आता है   यह मामला सिवनी के माध्यमिक शाला का है | मध्यप्रदेश में शिक्षा के बुरे हालात हैं | लेकिन अब कमलनाथ सरकार की शराब नीति का असर  शिक्षकों  पर  भी देखने को मिल रहा है  |  सिवनी के आदिवासी बहुल क्षेत्र विकासखंड घंसौर की माध्यमिक शाला  ईश्वरपुर में | उस समय अफरा तफरी मच गई  | जब  उच्च माध्यमिक शाला में पदस्थ सहायक प्राचार्य भागचंद विश्वकर्मा | एक वैवाहिक कार्यक्रम से सीधे स्कूल आ गए  | प्रभारी प्राचार्य नशे में धुत कभी अपने कपड़ों को संभालते नजर आए    तो कभी अपने कदमों को | सिर पर  गमछा बांधे ये सहायक प्राचार्य बच्चों को क्या शिक्षा देंगे  | ये तो वो ही बता पाएंगे  |  खैर आइये हम  आपको सुनाते है नशे में धुत प्राचार्य की बात  |  जो की इतने नशे में हैं की |  सही ढंग से बोल भी नहीं पा रहे  |  ग्रामीणों का कहना है की  | प्रभारी प्राचार्य महोदय के शराब पीकर स्कूल आने की जानकारी 100 डायल  में भी दी गई  |  लेकिन वहां से कोई नहीं आया    हालाँकि ग्रामीणों ने बताया की ऐसा पहले कभी नहीं हुआ  | लेकिन जब शिक्षा के मंदिर में खुद शिक्षक शराब पी कर आएंगे तो  | बच्चे क्या सीखेंगे इसका अंदाजा आप लगा सकते हैं  | जैसे ही इस बात की जानकारी पलकों को लगी तत्काल पालकों ने गंभीरता का परिचय देते हुए   | वरिष्ठ अधिकारियों की इसकी सूचना दी  |  जिसके बाद मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने पंचनामा बनाकर वरिष्ठ अधिकारियों के समक्ष प्रस्तुत कर दिया  | जनपद पंचायत घंसौर मैं पदस्थ सीईओ ने घटना को लेकर कार्रवाई की बात कही |     

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 March 2020

 Spoiled weather

ओले -बारिश ने बढ़ाई किसानों की चिंता फसलें हुईं चौपट   सिवनी में मौसम के बदले मिजाज ने किसानो को संकट में डाल  दिया है |  जिले में अचानक हुई बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि से  किसानो की फसल  बर्बाद हो गई है  | अपनी बर्बाद हुई फसलों को देखकर एक किसान ने गीत के जरिये अपनी पीड़ा व्यक्त की है  |  किसान  खेत में गिरे ओले पर गीतगाकर बता रहा है की | किस प्रकार ओलों से उनकी खेती चौपट हो गई है  |  प्रदेश में  मौसम का मिजाज एक बार फिर बिगड़ गया है |  सिवनी  के कई क्षेत्रों में अचानक तेज बारिश के साथ ओलावृष्टि हुई | आंधी तूफान के साथ हुई तेज  बारिश ने खेत मे लगी फसल को चौपट कर दिया  | जिससे अब अन्नदाताओ के माथे पर चिंता की लकीरें खिंच गयी है  | जानकारी के अनुसार जिले की तहसील लखनादौन, छपारा, घंसौर के ग्रामीण क्षेत्रो में अधिक ओले गिरने से  | किसानों के चेहरे मुरझा गए हैं  |  कई क्षेत्रों में  तेज बारिश में ओले लगभग 5 मिनट तक गिरे  | जिससे फसलो को काफी नुकसान पहुंचा  है  | वही अब मौसम के पलटते ही घना कोहरा रहने की आशंका  है  | जिससे बची फसल  को  भी नुकसान होने की आशंका  है | इस बीच एक किसान और लोक संगीत गायक बंटी तिवारी ने फिल्मी गाने की तर्ज पर  |  ओलों से बरबाद हुई फसलों की पीड़ा गा  कर बताई  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 February 2020

Vicious thief caught

चोरों के पास से 3लाख 90 हजार रूपये का सामन जप्त कबाड़ बीनते हुए चोरी की घटनाओं को देते थे अंजाम   सिवनी पुलिस ने चोरी का सामान बाँट रहे चोर गिरोह को गिरफ्तार किया है | चोरों के पास से  3 लाख 90 हजार रुपये के सोना चांदी के जेवरात एवं नगद रुपये जप्त किये गए हैं |  ये आरोपी रहवासी इलाकों में  घूम घूम कर कबाड़ बीनते हुए चोरी की घटनाओं को अंजाम देते थे  |  सिवनी के लखनादौन में  पुलिस अधीक्षक कुमार प्रतीक के निर्देश पर | पुलिस ने  चोरी करने वाले गिरोह को पकड़ा है  |  लखनादौन पुलिस द्वारा पकड़े गए 5 आरोपियों से बारीकी से पूछताछ करने पर बताया गया कि  वो दिन में घूम फिरकर गांव, कस्बा, मोहल्लों में कबाड़ बीनकर घरों की रेकी कर लेते थे | और घरों में ताला जड़ा देखकर दिन में ही चोरी की घटना को अंजाम देते थे |  गौरतलब है की पुलिस को मुखबिर से सूचना प्राप्त हुई कि मिशन टोरिया की पहाड़ी के पीछे कुछ संदिग्ध लोग बैठकर पैसों एवं जेवरातों का आपस मे बंटवारा कर रहे हैं  |  जिसकी सूचना पर संज्ञान लेते हुए थाना प्रभारी ने टीम के साथ तत्काल पहुँचकर घेराबंदी की | और मौके  से 5 लोगो को सोना, चांदी के जेवरात एवं नगद रुपये के साथ गिरफ्तार किया  |  एसडीओपी अरविंद श्रीवास्तव ने बताया कि चोरी करने वाले आरोपियों के पास से कुल 3 लाख 90 हजार रुपये के सोना चांदी के जेवरात एवं नगद रुपये जप्त किये गए हैं |  ये आरोपी रायसेन और  नरसिंहपुर जिले के है  |  जो घूम घूम कर कबाड़ बीनते हुए चोरी की घटनाओं को अंजाम देते थे| इन चोरों पर  पहले से ही चोरी की कई घटनाओ को अंजाम देने का आरोप है  |  और इन  के खिलाफ न्यायालय में मुकदमे में चल रहे हैं | इन चोरों  से सघनता से पूछताछ जारी है जिसके चलते ओर भी खुलासे होने की उम्मीद  है |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 February 2020

 Gandhi statue unveiled

बड़ी संख्या में लोग रहे मौजूद छात्रों ने कम दिखाई रूचि   सिवनी के महाविद्यालयों में महात्मा गांधी की प्रतिमा का  अनावरण कर  संवाद कार्यक्रम का आयोजन किया गया  | और युवाओं को उनके बताये हुये सत्मार्ग  पर चलने का सन्देश दिया गया  |  सिवनी के  महाविद्यालयों में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी  स्तंभ के  निर्माण का लोकार्पण किया गया  | इस दौरान  युवाओं को उनके बताये हुये सन्मार्ग पर चलकर  देश की उन्नति की ओर अग्रसर करने का सन्देश  दिया गया | शासकीय महाविद्यालय परिसर में आयोजित गांधी स्तंभ के लोकार्पण के दौरान बड़ी संख्या में वरिष्ठ जनो की उपस्थिति रही  | कार्यक्रम में बड़ी संख्या में महाविद्यालय के छात्र छात्राओं के अतिरिक्त समस्त कॉलेज परिवार मौजूद  रहा  | इस मौके पर  बापू के स्वतंत्रता के लिए चलाये गए अहिंसात्मक आंदोलनो एवं त्याग के बारे में चर्चा की गई  |  महात्मा गांधी के संवाद दर्शन कार्यक्रम के दौरान महाविद्यालय में मौजूद  छात्र छात्राएं  परिसर में यहाँ वहाँ टहलते नजर आए |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 February 2020

  Inferiority of doctors

गर्भवती महिला को नहीं दिया गया ओढ़ने के लिए  कम्बल   सिवनी के लखनादोन  सिविल अस्पताल में डॉक्टरों और स्टाफ  की संवेदनहीनता सामने आई है   | प्रसव पीड़ा से तड़प रही एक महिला को अस्पताल में बमुश्किल बेड दिया गया  | उसपर भी स्टाफ ने महिला को इस कड़कड़ाती ठण्ड में ओढ़ने के लिए ना तो कम्बल दिए   | और ना ही गद्दे उपलब्ध कराये   इतना ही नहीं अस्पताल के स्टाफ ने गर्भवती महिला को चलता करने की भी कोशिश की  | जब इस बारे में बीएमओ से बात की गई तो उन्होंने  वही जांच कराने का रटा रटाया जवाब दिया |  सिवनी में लखनादौन  के सिविल अस्पताल में डॉक्टरों और स्टाफ  की संवेदनहीनता का नजारा देखने को मिला |  सुबह करीब 4 बजे प्रसव पीड़ा से तड़प रही अनिता दीक्षित को  डॉक्टरों की उपेक्षा के चलते  |  ठंडे  बिस्तर पेटी में बिना किसी चादर के करीब आधे घण्टे लेटना पड़ा |   इतना ही नही, अस्पताल में मौजूद महिला नर्सों ने कम्बल न होने की बात कह कर  |  उसे चलता करने की कोशिश की   | करीब एक घण्टे की मशक्कत के बाद  पीड़ित महिला को अस्पताल में एक पलँग नसीब हुआ  | लेकिन अस्पताल में मौजूद  स्टाफ ने गर्भवती महिला को ना ही कम्बल  दिए  |  ना ही गद्दा उपलब्ध कराया  | और आखिर में महिला को  अपने घर से लाए हुए कपड़ो पर ही सोना पड़ा  |  जब इस बारे में सिविल अस्पताल के बीएमओ  बी. एम. सोलंकी से बात की गई तो उन्होंने वही रटा रटाया जबाव दिया  | सोलंकी ने  मामले की जांच कर कारवाई करने की बात कही  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 February 2020

 Yogendra Singh Baba

विधायक ने किया मुख्यमंत्री के सन्देश का वाचन विधायक ने कलाकारों के साथ किया लोकनृत्य   71वे गणतंत्र दिवस के मौके पर कांग्रेस विधायक योगेंद्र सिंह बाबा ने |  अध्यक्ष जलसों बाई उईके के साथ ध्वजारोहण किया | परेड की सलामी ली इस मौके पर विधायक ने लोकनृत्य कर रहे कलाकारों के साथ शामिल होकर लोकनृत्य भी किया  |  सिवनी जिले की लखनादौन तहसील में कांग्रेस विधायक योगेंद्र सिंह बाबा ने हाई स्कूल मैदान पर आयोजित कार्यक्रम में पहुँचकर शिरकत की जनपद अध्यक्ष जलसों बाई उईके के साथ ध्वजारोहण किया |  परेड की सलामी | एसडीएम अंकुर मेश्राम ने भी परेड की सलामी ली | उसके बाद विधायक द्वारा मुख्यमंत्री के संदेश का बाचन किया गया एवं शांति के प्रतीक हेतु तिरंगे गुब्बारे हवा में छोड़े गए  |  इस मौके पर लखनादौन तहसील की सभी संस्थाओं द्वारा हाई स्कूल में कार्यक्रम आयोजित किया गया | जिसमें सभी संस्थाओं के स्कूली बच्चों ने आकर्षक प्रस्तुतियां प्रस्तुत की एवं शासकीय विभागों द्वारा आकर्षक झाँकी प्रस्तुत की गई |  जिसमें आदिम जाति विभाग द्वारा भारतीय संस्कृति में लोकनृत्य की प्रस्तुति दी गई  |  जिसमें विधायक ने भी शामिल होकर लोकनृत्य किया  | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 January 2020

 FAGGAN SINGH

CAA पर कमलनाथ लोगों में भ्रम फैला रहे हैं     केंद्रीय स्टील राज्यमंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि कमलनाथ कहते हैं कि वह CAA  कानून मध्य प्रदेश में लागू नहीं करेंगे  | जबकि यह कानून देश की पार्लियामेंट ने पास किया है और राष्ट्रपति के हस्ताक्षर से   कानून बना है  | कुलस्ते ने कहा विपक्षी दल इस पर भ्रम फैला रहे हैं  |  नागरिकता संशोधन कानून को लेकर केंद्रीय राज्य मंत्री  फग्गन सिंह कुलस्ते ने कहा की नागरिकता संशोधन कानून से भारत में निवास कर रहे अल्पसंख्यकों को कोई भी नागरिकता संबंधी खतरा नहीं होगा  |  यह कानून पड़ोसी देशों से आए शरणार्थियों को नागरिकता देने का कानून है  | उन्होंने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि कमलनाथ कहते हैं कि वह यह कानून मध्य प्रदेश में लागू नहीं करेंगे, जबकि यह कानून देश की पार्लियामेंट ने पास किया है और राष्ट्रपति के  हस्ताक्षर से कानून बना  है  | फग्गन सिंह ने कहा कि कानून के बारे में जागरूकता नहीं होने से राजनीतिक लोग जनता में भ्रम फैलाकर व्यर्थ की समस्या पैदा कर रहे हैं  |  कुलस्ते अपने संसदीय क्षेत्र के लखनादौन पहुंचे जहां पर उन्होंने भाजपा कार्यालय में कार्यकर्ताओं की बैठक लेकर नागरिकता संशोधन कानून को लेकर जन जागरूकता अभियान की शुरुआत की  |  कुलस्ते कार्यकर्ताओं के साथ लखनादौन के बाजार से होकर मुख्य मार्ग की एक जनसंपर्क रैली में भी शामिल हुए   जिसमे उन्होंने लोगों को  CAA से सम्बंधित पम्पलेट बांटे  | केंद्रीय मंत्री ने  नागरिकता संशोधन कानून जन जागरूकता को लेकर स्थानीय बस स्टैंड में एक गोष्ठी में भी भाग लिया |     

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 January 2020

DUSHKARM

नाबालिग आरोपी को पुलिस ने पकड़ा   सिवनी जिले में एक छह साल की मासूम बच्ची के साथ एक 14 साल के नाबालिग किशोर ने दुष्कर्म  किया  |  इस मामले के सामने आने के बाद पुलिस ने तत्काल  आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है |  ये मामला सिवनी जिले के  ग्राम सोनाड़ोंगरी का है   | जहां   14 वर्षीय नाबालिग आरोपी ने आंगन में खेल रही लगभग 6 वर्षीय मासूम बालिका के साथ दुष्कर्म किया  | परिजनों से मिली जानकारी अनुसार 6 वर्षीय बच्ची घर के आंगन में खेल रही थी  | तभी पास में रहने वाला एक  नाबालिग लड़का बच्ची को अपने घर ले गया और दुष्कर्म किया  |  दुष्कर्म का शिकार बच्ची रोती बिलखती रही  | बाद में ये लड़का  बच्ची को आंगन में लाकर छोड़कर भाग गया  जिसके बाद मासूम बच्ची ने रोते बिलखते अपनी माँ को अपना दर्द बयां किया |  तब  तत्काल परिजनों ने हंड्रेड डायल कर पुलिस को सूचित किया एवं बच्ची को जिला अस्पताल लेकर पहुँचे  | बच्ची के परिजनों की शिकायत मिलने के बाद बंडोल थाना पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है  | वहीं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मासूम पीडित बालिका स्वस्थ है  | आवश्यकता पडने पर उसे  बाहर उपचार के लिए भेजा जाएगा  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 December 2019

MAHUA KA PED

महुआ पेड़ के दर्शन करने पहुंच रहे श्रद्धालु   आधुनिकता की ओर बढ़ते देश में अभी भी अंधविश्वास ने अपने पैर पसार रखे |  ऐसा ही एक अन्धविश्वास का किस्सा लखनादौन से सामने आया हैं  | जहाँ महुआ का पेड़ में अचानक लोगो की आस्था जग गई हैं  | मगर यह आस्था अब अंधविश्वास में बदल जाने से मुसीबत बन गई है  |  बड़ी संख्या में श्रद्धालु महुआ के पेड़ के दर्शन करने लखनादौन पहुंच रहे है | आस्था के नाम पर पेड़ के आस पास लोगों ने अपना व्यापार शुरू कर दिया है  |    सिवनी के  लखनादौन विकासखंड के  ग्राम पंचायत  मोहगांव में  एक महुआ का पेड़ विगत 2 दिनों से आस्था या यूँ कहे की अन्धविश्वास का केंद्र बना हुआ है  | इस अंधविश्वास के चलते यहाँ दिन रात लोग भरी संख्या में पहुँच रहे हैं  |  गौरतलब है की  होशंगाबाद में भी पिछले दिनों कुछ शरारती तत्वों ने अफवाह उड़ाई थी की |  की  महुआ के पेड़ को छूने से सभी बीमारियां दूर हो जाती है   |   जिसके बाद वहां हजारों की संख्या में श्रद्धालु महुआ के पेड़ को छूने पहुंचने लगे थे  | और प्रशासन को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा था | लखनादौन में  अंधविश्वास के चलते  महुआ के पेड़ के आसपास  हजारों की तादाद में  | भोले भाले आदिवासी किसान अपनी तकलीफ लेकर पेड़ के दर्शन करने पहुँच रहे है  |  बताया जा रहा है  कि बढ़ती भीड़ के कारण | ग्राम पंचायत मोहगांव  द्वारा  जो लग पहुँच रहे हैं उन्हें परेशानी ना हो इसके लिए  पेयजल हेतु टैंकर की व्यवस्था कर दी गई है  | और वहां दुकाने भी शुरू हो गयी हैं  जिसमे  |  भक्तों के लिए पूजन प्रसाद के लिए नारियल के साथ ही  | चाय नाश्ते के लिए कैंटीन भी शामिल हैं   |  आस्था के नाम पर व्यापार किया जा रहा है |  हैरानी वाली बात यह है की इस बारे में पुलिस प्रशासन को कोई जानकारी नहीं है   इस बारे में सयकोलॉजिस्ट डॉक्टर मीनल दुबे का कहना है की |  लोगों की आस्था के कारण लोग वहा जा रहे है |  जब कभी एक व्यक्ति अपने बिलीव के कारण ठीक हो जाता है  |  तो उसके कारण बहोत से लोग उनसे जुड़ जाते है |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 December 2019

 MATR SHAKTI SANGTHAN

पुलिस की कार्यवाही का मातृशक्ति संगठन ने किया समर्थन    हैदराबाद पुलिस द्वारा बलात्कार व हत्या के चारों आरोपियों को एनकाउंटर करने की कार्यवाही का   | मातृशक्ति संगठन , यूथ विंग समर्पण युवा संगठन  ने खुलकर समर्थन किया हैं  |  देश की बेटी के साथ घटित हैवानियत का गम तो भूलने लायक नहीं है पर हैवानों को दी गई सजा ने इस दुख को थोड़ा सा हल्का किया है  |  मातृशक्ति संगठन यूथ विंग समर्पण युवा संगठन सिवनी मध्यप्रदेश ने   |  कहा की हैदराबाद पुलिस की इस कार्यवाही का हम खुलकर समर्थन करते है  | और हैदराबाद पुलिस को लाखों सलाम करते है  | जब जब इस दुनिया मे अत्याचार बढ़ें हैं तब तब उनका अंत करने किसी न किसी हुतात्मा को अवतरण लेना पड़ा है  | महिला डॉ के साथ हुई हैवानियत से पूरी दुनिया भी रोइ और आंसू पोंछने का पहला कदम उठाया हैदराबाद पुलिस ने  |  देश के कोने कोने में महिला डॉ को श्रद्धांजलियां दी गई  | लेकिन सच्ची श्रद्धांजलि महिला डॉ के गुनाहगारों को उनकी करनी की सजा हैदराबाद पुलिस द्वारा एनकाउंटर करके दी गई |   इस कार्यवाही से पीड़िता के परिवार सहित सारा देश  खुश है |  देश की बेटी के साथ घटित हैवानियत का गम तो भूलने लायक नहीं है |  पर हैवानों को दी गई सजा ने इस दुख को थोड़ा सा हल्का किया है |  देश भर में हैदराबाद पुलिस की जीत को बधाइयां मिल रही हैं सारा देश खुशी के आंसू लिए देश की बेटी प्रिंयका को याद कर रहा है  |  इस दौरान सिवनी के मातृशक्ति संगठन यूथ विंग समर्पण युवा संगठन द्वारा नगर के प्रमुख मार्ग कचहरी चौक में एकत्रित होकर आतिशबाजी की ओर मिठाईया बाटी एवं मार्ग पर तैनात पुलिस बल को भी मिठाई भेंट कर पुलिस प्रशासन जिंदाबाद के नारों के साथ |  संगठन ने मौजूदा सरकार से यह पुनः मांग  कि  | की फ़ास्ट ट्रेक कोर्ट का सही अर्थ यही है ताकि इस तरह की हैवानियत हमारे देश मे दोहराई न जाये जल्द ही सरकार बलात्कार जैसी घटानाओं पर कड़ा रुख अपनाएं |     

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 December 2019

 ATIKRAMAN

सरकारी जमीन पर कब्ज़ा करने वालों पर कार्यवाई   सिवनी में कलेक्टर के आदेश के बाद जिला प्रशासन ने  अतिक्रमण हटाने की  ताबड़ तोड़ कार्यवाई की  |  प्रशासन ने सभी स्थाई और अस्थाई अतिक्रम को हटा दिया  |  कलेक्टर ने आदेश जारी करते हुए कहा की अगर कोई शासन की जमीन पर अतिक्रमण करेगा  |  तो  उस पर कानूनी  कार्यवाई की जाएगी  |  सिवनी में गांधी भवन इलाके से शुरुआत कर बस स्टैंड, दुर्गा चौक, शुक्रवारी,नेहरू रोड की सड़क  से  अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही की गई  |  जिले के कलेक्टर प्रवीण सिंह अढ़ायच ने सभी प्रशासनिक अधिकारियों को इस  इसके लिए  निर्देश दिए जारी किये थे  |  जिसके बाद  खुद कलेक्टर की देख रेख में अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही प्रारम्भ की गई  |  प्रशासन द्वारा रास्ते मे किये गए सभी स्थायी अस्थायी अतिक्रमण को हटा दिया गया  | अतिक्रमण हटाओ मुहिम के दौरान भारी मात्रा में पुलिस बल एवं प्रशासनिक अधिकारी मौजूद रहे  |  अतिक्रमणकारियों ने प्रशासन की इस कार्यवाई पर आपत्ति जाहिर  करते हए कहा की  |  प्रशासन ने बिना कोई नोटिस दिए कार्यवाई की है  |  जो की सही नहीं है  | वो अतिक्रमण हटाने की  कार्यवाही का समर्थन तो करते है लेकिन  प्रशासन को उन्हें दुकानें हटाने का उचित अवसर देना था  |  इस पूरे मांमले में कलेक्टर ने बताया की  |  कार्यवाई  निष्पक्ष तौर पर की जा रही है  | और शासकीय जगह पर जिन्होंने अतिक्रमण किया है  | उनको ही हटाया जा रहा है  | नगर पालिका द्वारा पहले भी नोटिस दिया गया था  | लेकिन अतिक्रमण नहीं हटाया गया  | अतिक्रमण हटाने की कार्यवाई   प्राशसन द्वारा  लगातार जारी रहेगी  |  और पुनः शासकीय जमीन पर अतिक्रमण करते पाए जाने पर नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी  |         

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 November 2019

 TENDUA KI MAUT

तेंदुए के लिए काल बनते जा रहे है हाइवे के ट्रक   लखनादौन - नरसिंहपुर के  बीच आमानाला के पास फोरलेन पर अज्ञात वाहन की टक्कर से तेंदुआ की मौत हो गई   |  इसके पूर्व भी इसी फोरलेन पर दो तेंदुआ की मौत हो चुकी है  |  वन अधिकारीयों ने बताया कि वाहन से टकराकर ही तेंदुए की मौत हुई है  |  सिवनी के पास फोरलेन सड़क पर फिर एक तेंदुआ मारा गया है   |  वन परिक्षेत्र अधिकारी दिनेश यादव ने घटना की पुष्टि  की और बताया वन अमला मौके पर पहुंचा और घटना का जायजा लिया   | . बीती रात  इस दुर्घटना के बाद सुबह पशु चिकित्सा दल की टीम घटना  पहुंची और मौका मुआयना किया   | और  तेंदुए की मौत का कारन किसी भारी वाहन से टकराने को बताया  | .इसी इलाके में ये इस तरह तेंदुए की मौत की तीसरी घटना है  |  वहीं दूसरी ओर लगातार वन्यजीवों की  मौत के विरुद्ध मंगवानी वन विभाग के डिपो के सामने समाजसेवियों के धरना प्रदर्शन किया  .| आंदोलनकारियों का कहना है कि वन्यजीवों की सुरक्षा में वन विभाग पूरी तरह से नाकाम है   | यह तीसरी घटना है जब सड़क दुर्घटना में तेंदुआ की मौत हुई है और वन विभाग इस दिशा में कोई कारगर पहल नहीं कर पा रहा है  |                                 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 October 2019

 MILAVAT KHORI

पेट्रोल पम्प पर हंगामा   मिलावट खोरो के खिलाफ सरकार सख्त होने की बात तो करती है पर सख्ती करती  कहीं  नज़र ही नही आती  |  सिवनी के एक पेट्रोल पम्प से गाड़ियों में पानी मिला पेट्रोल डाला गया  |  जब लोगों ने हंगामा किया तो पेट्रोल पम्प संचालक ने अपनी गलती मानी   |  लोगों के हंगामे के बाद प्रशासन ने इस पेट्रोल पम्प को सील किया   |  सड़क पर दौड़ती गाड़ियां अचानक बीच सड़कों पर बंद होना शुरू हुईं   | एक दो गाड़ियों से शुरू हुआ यह सिलसिला   30  -40 तक पहुँच गया मैकेनिकों ने सभी गाडी वालों को बताया कि गाडी में पेट्रोल की जगह पानी डाला गया है   | रात में गाड़िया बन्द होने से कई वाहन सवार  परेशान हो कर उस पेट्रोल पम्प पर पहुंचे जहाँ से पेट्रोल लिया था  | सभी वाहनों को चैक करने पर पेट्रोल टैंक से  पानी निकला  |  लखनादौन के इस पेट्रोल पम्प  पर जमकर हंगमा हुआ | शुरू में तो पम्प संचालक अपनी गलती मानने को तैयार नहीं था लेकिन जब उससे पीड़ित लोगों की संख्या बढ़ी तो उसने अपनी गलती मानी और सब की गाड़ियां ठीक करवाने का आश्वासन देकर मामले को रफा दफा करने की कोशिश की  |  लोगों के हंगामे के बाद प्रशासन की नींद खुली और लखनादौन के   घँसौर नागपुर चौराहे पर  स्थित सुहाने पेट्रोल फिलिंग सेंटर को आधी रात को सील कर दिया गया  | देर रात को हंगामे के बीच कई बाइक संचालकों ने पेट्रोल लेने के बाद मौके पर ही बोतल में पेट्रोल भरकर दिखाया कि किस तरह से मिलावटी पेट्रोल ग्राहकों को थमाया जा रहा है  |  उपभोक्ताओं का आक्रोश इतना था कि वे उग्र हो गए  |    लोगों का कहना है ये  सीधे टेंक में पेट्रोल डलवाने के कारण यह पता नहीं लगता कि पेट्रोल कैसा है लेकिन जब बाइक को सर्विस सेंटर पर ले जाया जाता है तब मिस्त्री बताते हैं कि मिलावटी पेट्रोल के कारण इंजन में खराबी आई है  |     

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 October 2019

 ACCIDENT

ड्राइवर की गलती से हो जाता बड़ा हादसा   सिवनी से मंडला जा रही बस ने एक बाइक को टक्कर मार दी  | जिसके बाद बस में आग लग गई  |  आनन-फानन में मुसाफिर बस से नीचे उतर गए वर्ना ड्राइवर की गलती से  बड़ी जनहानि हो सकती थी  |  सिवनी से मंडला जा रही यात्री बस में बरेलीपार गांव के पास एक हादसे के बाद आग लग गई  | आग लगते ही बस धू-धूकर जलने लगी  |   गनीमत रही कि हादसे के बाद सभी मुसाफिर वक्त रहते नीचे उतर गए  |  वरना बड़ी जनहानि भी हो सकती थी  | बस सिवनी से मंडला जा रही थी तभी बरेलीपार गांव के पास एक बाइक सवार को बस ने टक्कर मार दी  | इसके बाद ड्राइवर बस को लेकर भागने लगा  |  इसी दौरान बाइक बस के नीचे फंस गई और ड्राइवर 8 किलोमीटर तक ऐसे ही बस को  दौड़ाता रहा  | इसी दौरान बाइक से चिंगारी निकलने लगी  और  देखते ही देखते ही आग भड़क गई और बस के अगले हिस्से को अपनी चपेट में ले लिया  | कुछ देर के भीतर ही बस पूरी तरह जलकर खाक हो गई  | इस हादसे में बाइक सवार की मौके पर ही मौत हो गई  | हादसे की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंचीं और हालात को काबू किया  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 September 2019

 RASHTRAPATI

विभाग के अधिकाकियों  कर्मचारियों से हैं प्रताड़ित    अपने ही विभाग के अधिकारीयों और कर्मचारियों की प्रताड़ना से तंग आकर  | एक महिला ने राष्ट्रपति को पत्र लिखकर इच्छामृत्यु की अनुमति मांगी हैं | अपने हक़ के लिए पिछले दो सालों से लड़ रही महिला को जब हर स्तर से असफलता मिली तो उसने थक कर प्राण त्यागने की बात कही हैं   | मुख्यमंत्री कमलनाथ को भी पीड़िता ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि  | प्रदेश के सिवनी जिले में निवासरत मैं भी आपकी आदिवासी बेटी हूं और दो सालों से न्याय के लिए तरस रही हूं। आपको बताते हैं की क्या है पूरा मामला    |  कामकाजी महिला कर्मचारियों के साथ हो रहे अत्याचार और उत्पीड़न को उजागर करने वाला यह शर्मनाक मामला आदिम जाति कल्याण विभाग सिवनी का है   "|  जिसमे एक पीड़िता ने राष्ट्रपति को पत्र लिखकर इच्छामृत्यु की अनुमति मांगी है  |  राष्ट्रपति से इच्छामृत्यु के लिए पत्र लिखने का मामला सामने आने के बाद आदिम जाति कल्याण विभाग में हड़कंप मचा हुआ है   | और मामले को दबने के प्रयास किए जा रहे हैं  |  पीड़ित महिला कर्मचारी ने ट्वीटर में भी इस मामले को सार्वजनिक किया है   | जो सोशल मीडिया में वायरल हो गया है  | मामला सामने आने के बाद सहायक आयुक्त पर सवाल उठ रहे हैं  |  राष्ट्रपति को लिखे गए पत्र के मुताबिक पीड़ित महिला कर्मचारी की अनुकंपा नियुक्ति सहायक ग्रेड तीन के पद पर हुई थी   |  9 सितम्बर 2017 को विभाग में ही पदस्थ सहायक ग्रेड तीन कर्मचारी सुधीर राजनेगी ने महिला कर्मचारी के शासकीय आवास में घुसकर महिला के साथ छेड़खानी, अभद्रता की और जान से मारने की धमकी दी  |  जिसके बाद पीड़ित महिला कर्मचारी ने कोतवाली में मामला दर्ज करवाया और सहायक आयुक्त सतेंद्र मरकाम से शिकायत कर कर्मचारी सुधीर राजनेगी के खिलाफ कार्यवाही करने की मांग की  |   लेकिन आज तक उक्त कर्मचारी पर कोई कार्यवाही नहीं की गई। बल्कि, उल्टे उसकी पोस्टिंग भी महिला कर्मचारी के नजदीकी कार्यस्थल पर कर दी गई  |    पीड़ित महिला का आरोप हैं  कि सहायक आयुक्त अपनी पहुंच का उपयोग करते हुए इस मामले को दबा रहे हैं  | उन्होंने मामले को दबाने और साक्ष्य खत्म करने के लिए मेरा तबादला जानबूझकर घंसौर कर दिया है  | जो गलत है |  मैंने इसकी शिकायत वरिष्ठ अधिकारियों, कलेक्टर सहित जिले के प्रभारी मंत्री से भी की, लेकिन आज तक मुझे न्याय नहीं मिला |   लिहाजा मुझे राष्ट्रपति को पत्र लिखकर इच्छामृत्यु मांगनी पड़ रही है  |  प्रदेश के |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 September 2019

 BARISH ANUSTHAN

मेंढक-मेंढकी की हुई  शादी धूमधाम से  निकाली मेंढक की बारात    एक तरफ तो देश के कई हिस्सों में  बारिश के चलते जान जीवन अस्त वयस्त हुआ है वही दूसरी तरफ मध्यप्रदेश के सिवनी जिले में अब  तक बारिश ने दस्तक नही दी है  तेज गर्मी से शहरी इलाकों  में बुरा हाल है तो वही दूसरी तरफ ग्रामीण अंचलों में बारिश के इंतज़ार में  किसान का बुरा  हाल हो चुका है  इस कारण कहीं अनुष्ठान किये जा रहे हैं तो कहीं मेंढक मेंढकी की शादी    बारिश के न होने के चलते मध्यप्रदेश के सिवनी नगर के ढीमर समाज ने मछली मार्किट बन्द कर बारिश के लिए सिवनी नगर में  बारात निकालकर मेंढक-मेंढकी की शादी कराई, साथ ही मठ मंदिर में अनुष्ठान भी किया  इस आयोजन के पीछे मान्यता है कि मेंढक-मेंढकी की शादी कराने से इंद्रदेव प्रसन्न हो जाते है जिससे अच्छी बारिश होती है   अच्छी बारिश की कामना के साथ  समाज के ही कुछ छोटे बच्चों को नग्न अवस्था में  घुमाया गया  इन बच्चों और  मेंढक के साथ पूरे क्षेत्र वासियो ने पहले पूजा-अर्चना की  और फिर  मेंढक की बारात निकाली गई   यह बारात  शहर के विभिन्न क्षेत्रों में पहुची जिसके बाद वापस  मंदिर पहुचकर समाज के लोगो ने पूजा अर्चना कर अनुष्ठान किया  बारात से लेकर मंदिर पहुंचते तक लोग  मेंढक-मेंढकी को पानी भी पिलाते रहे  ताकि वे जिंदा रह सके और उनकी शादी हो सके  मेंढक को तरसा-तरसा कर पानी पिलाने के पीछे मान्यता है कि मेंढक जितना तड़पते हैं, भगवान इंद्र देव को उतना ही दर्द होता है   मेंढक की इस तड़पन को दूर करने के लिए भगवान इंद्रदेव बारिश करने लगते हैं   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 July 2019

सुलोचना

सिवनी जिले के ग्राम जमुनिया की 13 वर्षीय बालिका सुलोचना अक्सर बीमार रहती थी। कुछ नासमझी और कुछ आर्थिक स्थिति के कारण उसका कभी  ढंग का इलाज नहीं हुआ। सुलोचना की किस्मत कहिये कि एक दिन आरबीएसके की टीम गांव पहुँच गई। टीम ने जाँच में सुलोचना को गंभीर हृदय रोग से ग्रसित पाया। जिला प्रशासन की मदद से 24 जुलाई को नागपुर के श्रीकृष्णा हास्पिटल में उसकी हार्ट सर्जरी हुई। ऑपरेशन तो सफल रहा पर सुलोचना ठीक से अपने पैरों पर खड़ी नहीं हो पा रही थी। उसका स्कूल जाना भी बंद हो गया। माता-पिता हैरान-परेशान थे। लगभग एक साल तक ऐसी ही स्थिति में रहने से सुलोचना का मनोबल गिरने लगा था। उपचार के दौरान होम्योपैथी चिकित्सक डॉ. तारेन्द्र डेहरिया ने सुलोचना और उसके माता-पिता को ढांढस बंधाया कि होम्योपैथिक इलाज से वह ठीक हो सकती है। डॉ. डेहरिया ने 6 माह तक सुलोचना का नि:शुल्क उपचार किया। अब सुलोचना अपने पैरों पर खड़ी होने के साथ ही चलने भी लगी है। डॉक्टर का विश्वास है कि जल्दी ही सुलोचना दौड़ने और खेलने-कूदने लगेगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 August 2018

narmda

  घंसौर में "नमामि देवी नर्मदे'' यात्रा में शामिल हुए मुख्यमंत्री    मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि पर्यावरण संरक्षण के लिये 'नमामि देवी नर्मदे'' सेवा यात्रा देश का अब तक का सबसे बड़ा जन-अभियान है। श्री चौहान यात्रा के चौदहवें दिन सिवनी जिले के घंसौर में जन-संवाद कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि यह राजनीतिक नहीं, सामाजिक सरोकार से जुड़ी यात्रा है। उन्होंने कहा कि गर्मी में नर्मदा की जलधारा दुर्बल और पतली हो जाती है। चूँकि नर्मदा किसी ग्लेशियर से नहीं निकलती, बल्कि इसकी जलधारा विंध्याचल और सतपुड़ा के वृक्षों द्वारा अवशोषित जल से छोड़ी गयी बूँदों से बनती है। इसलिये यह जरूरी है कि नर्मदा के दोनों तट पर वृक्षारोपण किया जाये, ताकि नदी का जल-स्तर बढ़ सके। मुख्यमंत्री ने कहा कि अभियान के दौरान वन और राजस्व की जमीन पर वृक्षारोपण किया जायेगा। साथ ही निजी भूमि पर किसानों द्वारा वृक्षारोपण करने पर उन्हें 3 साल तक 20 हजार रुपये प्रति हेक्टेयर की दर से मुआवजा राशि दी जायेगी और मनरेगा के तहत मजदूरी भी मिलेगी। उन्होंने कहा कि वृक्ष लगाने पर 40 प्रतिशत सबसिडी भी दी जायेगी। मुख्यमंत्री ने लोगों का आव्हान किया कि वे नर्मदा नदी को शुद्ध और पवित्र बनायें। शौच क्रिया, शव-विसर्जन, केमिकल युक्त मूर्तियाँ विसर्जित न करें। जन-संवाद कार्यक्रम में केन्द्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री श्री फग्गन सिंह कुलस्ते, परिवार कल्याण एवं लोक स्वास्थ्य राज्य मंत्री तथा सिवनी जिले के प्रभारी श्री शरद जैन, सांसद श्री बोधसिंह भगत, गौ-संवर्धन बोर्ड के अध्यक्ष स्वामी अखिलेश्वरानंद तथा स्वामी प्रज्ञानंद उपस्थित थे।        

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 December 2016

बाघ शिकारी गिरफ्तार

मध्यप्रदेश वन विभाग की एसटीएफ टीम ने 22 अक्टूबर को कान्हा टाइगर पार्क में मारे गये बाघ के शिकारियों को ढूँढ निकाला है।  टीम ने 6 शिकारी देवी सिंह, धीर सिंह, ज्ञान सिंह, सुंदरलाल, धर्म सिंह और छोटेलाल को मानेगाँव से गिरफ्तार कर धीर सिंह के घर से बाघ को मारने में उपयोग किये गये बिजली के तारों को भी बरामद किया। शिकारियों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। शिकारियों ने क्षेत्र संचालक  पंकज शुक्ला को बताया कि उनका बाघ को मारने का कोई इरादा नहीं था। उन्होंने मानेगाँव के पास जंगली सुअर या चीतल को मारने के इरादे से बिजली के तार बिछाए थे, जिसमें दुर्भाग्य से बाघ फँस गया। बाघ के मरने से वे बहुत भयभीत हो गये और उसके शव को घसीटकर लेंटाना की झाड़ियों में छुपा दिया। इसके बाद देवी सिंह और छोटेलाल ने बाघ के चारों पंजे काटे, ताकि उन्हें बेचकर पैसा कमाया जा सके। इतने में एसटीएफ की टीम खोजी कुत्तों के साथ वहाँ पहुँच गयी। पकड़े जाने के डर से देवी सिंह ने चारों पंजे बंजर नदी के पास पहुँचकर एकांत में जला दिये, लेकिन खोजी कुत्तों और प्राप्त जानकारी के आधार पर टीम वहाँ भी पहुँच गयी और अपराधियों को धर पकड़ा। वन विभाग की टीम को देवी सिंह ने वह जगह भी दिखायी, जहाँ उसने कटे पंजों को जलाया था। पैरों के अधजले अंग भी टीम ने बरामद किये।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 October 2016

कान्हा में शुरू होगी नाइट सफारी

कान्हा नेशनल पार्क में दिन के समय पार्क भ्रमण का आनंद तो लोग लेते ही हैं लेकिन अब जल्द ही पार्क में नाइट सफारी का भी लुफ्त ले सकेंगे। इस सीजन से कुछ हटकर करने के लिए प्रबंधन ने नाइट सफारी का प्रस्ताव शासन को स्वीकृति के लिए भेजा है।  प्रबंधन ने उम्मीद जताई है कि यह प्रस्ताव स्वीकृत होते ही निश्चित रूप से पर्यटकों का रूझान कान्हा में जबर्दस्त बढ़ेगा और रात में जंगल भ्रमण का रोमांच अनोखा होगा। पर्यटक वन्यप्राणियों की चमकती हुई आंखें और उनका आना-जाना देखकर रोमांच होगा। हालांकि नाइट विजन गॉगल का भी उपयोग किया जाएगा। जिससे जंगल प्रकाश से भरपूर दिखाई पड़ेगा और रात के अंधेरे में भी जानवर स्पष्ट देखे जा सकेंगे। प्रथम चरण में पार्क प्रबंधन ने 03 वाहनों को नाइट सफारी के लिए अनुमति मांगी है। प्रतिदिन 18 पर्यटकों को नाइट सफारी पर जाने का मौका मिलेगा। कंजरवेशन  प्लान में भी नाइट सफारी का जिक्र हैं। कान्हा पार्क प्रबंधन का मानना है कि बफर जोन पर्यटकों के लिए खोले जाने व नाइट सफारी से पर्यटकों का रूझान बढ़ेगा। बफर जोन में पर्यटन बढ़ने से वाइल्ड लाइफ को भी फायदा मिलेगा। वन्यप्राणियों की संख्या भी बढ़ेगी। तीन माह पार्क बंद रहने से शिकारी सक्रिय हो जाते थे, लेकिन वर्षभर पर्यटन जारी रहने से लोगों की उपस्थित पार्क क्षेत्र में रहेगी। जिससे पार्क व रहने वाले वन्यप्राणियों की सुरक्षा भी होगी। साथ ही स्थानीय लोगों को रोजगार मिलता रहेगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 September 2016

hindi granth akadami

  उच्च शिक्षा मंत्री पवैया ने दिये निर्देश    उच्च शिक्षा मंत्री  जयभान सिंह पवैया ने कहा है कि भारत के प्रख्यात साहित्यकारों के नामचीन काव्य, ग्रंथ और अन्य साहित्यिक कृतियों से समृद्ध पुस्तकालय हिन्दी ग्रंथ अकादमी में बनाया जाये। इससे शोधार्थी छात्र को दुर्लभ पुस्तक आसानी से उपलब्ध हो सकेगी। श्री पवैया ने आज मध्यप्रदेश हिन्दी ग्रंथ अकादमी और व्यक्तित्व विकास प्रकोष्ठ की गतिविधियों की समीक्षा की।   मंत्री  पवैया ने निर्देश दिये कि व्यक्तित्व विकास प्रकोष्ठ व्यापक और असरकारी बनाया जाये। इसकी गतिविधियों का प्रभाव महाविद्यालय परिसर में छात्रों के मन-मानस पर दिखाई दे। छात्रों पर इसका प्रकाश नैतिक मूल्यों और देश-भक्ति के रूप में परिलक्षित हो।   श्री पवैया ने कहा कि मध्यप्रदेश में हिन्दी भाषा की जितनी भी बोलियाँ हैं, उनका संकलन करने की योजना बनाई जाये। इसी तरह विभिन्न अंचल की जन्म से विवाह तक की परम्पराओं की लोक-रीतियों का संकलन किया जाये। त्यौहार और विवाह इत्यादि में गाये जाने वाले लोक-गीत, जो केवल पुरानी पीढ़ी के पास सुरक्षित है, उन्हें पुस्तक का रूप दिया जाये, जिससे यह धरोहर लुप्त नहीं हो।   श्री पवैया ने कहा कि अकादमी के जरिये अनुसूचित जाति-जनजाति के छात्र-छात्राओं को नि:शुल्क पुस्तक वितरण में दिव्यांग बच्चों को भी शामिल किया जाये। यह देश में पहली बार होगा। उन्होंने कहा कि शब्दकोश का भी प्रकाशन किया जाये। पूर्व प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी और भारतरत्न पं. मदनमोहन मालवीय पर केन्द्रित पुस्तकों का प्रकाशन भी हो।   श्री पवैया ने कहा कि अकादमी द्वारा विश्वविद्यालय और जिला-स्तर पर चेतन प्रवाह विमर्श गोष्ठियाँ कर छात्रों को प्रोत्साहित किया जाये। गोष्ठियों में मुख्यालय के प्राचार्यों को भी शामिल किया जाये। श्री पवैया ने इस मौके पर व्यक्तित्व विकास प्रकोष्ठ के ब्रोशर का विमोचन किया। उन्होंने अकादमी का निरीक्षण भी किया। प्रमुख सचिव श्री आशीष उपाध्याय और अकादमी संचालक प्रो. सुरेन्द्र बिहारी गोस्वामी उपस्थित थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 August 2016

घूंघट से रोजगार तक आदिवासी महिलायें

जे.सी. धोलपुरिया गरीबी से जूझ रही छोटे-से गांव मझौली की बेरोजगार आदिवासी महिलाओं के जीवन की खोई चमक को महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना और मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम कुछ हद तक लौटाने में कामयाब रही है। सदा घूंघट में सिमटी-सुकड़ी रहने वाली महिलाओं की जीवन शैली में काफी बदलाव आया है। स्वसहायता समूह बनाकर इन महिलाओं का घूंघट से चेहरा बाहर निकालने और बेरोजगार से आत्मनिर्भर होने तक का सफर महिलाओं के सामाजिक और आथिर्क सशक्तीकरण का एक प्रेरक प्रसंग है।इन महिलाओं के पति दिहाड़ी मजदूर हैं और परिवार का जीवन स्तर सुधारने के लिए ये स्वयं भी कुछ करना चाहती थीं। इसलिए इन महिलाओं ने दुर्गा स्वसहायता समूह और विकास स्वसहायता समूह के नाम से 12-12 महिलाओं के दो समूह बना लिए और प्रत्येक महिला हर माह तीस-तीस रूपये जमा करने लगीं। ये महिलाएं रोजी-रोटी के लिए समूह के रूप में कोई काम करना चाहती थीं, पर घूंघट की ओट में रहने और अपने संकोची स्वभाव के कारण ये अपने मकसद में आगे नहीं बढ़ पा रही थीं और मार्गदर्शन के अभाव में कोई ऐसा कार्य महिलाओं के इन स्वसहायता समूहों के हाथ नहीं लगा, जो उनके जीवन यापन का जरिया बनता। साल भर पहले विश्वास समाज सेवी संगठन ने पहल की। इन महिलाओं को प्रेरित किया और उपर्युक्त दोनों योजनाओं से जोड़ने में मदद की। आज ये महिलाएं पुरूषों के बराबर बैठकर बगैर घूंघट के विचार मंथन करती हैं। महिलाओं के ये दोनों स्वसहायता समूह आज बहुत-सी सामुदायिक गतिविधियां चलाते हैं और ये बस उतना ही कमा पाती हैं, जितने में परिवार चल सकें। खास बात यह है कि इन महिलाओं ने नशामुक्ति के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी और बगैर किसी जोर जबरदस्ती के कई पुरूष शराब पीना छोड़ चुके हैं।स्वसहायता समूह की महिलाएं गांव के सभी रास्ते और घर साफ सुथरे रखने और घरों में शौचालय बनाने के लिए ग्रामवासियों को प्रेरित करती हैं। मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम इन दोनों स्वसहायता समूह की महिलाओं के लिए बेहद लाभकारी सिद्ध हुआ है। क्षेत्र के स्कूलों और आंगनवाड़ी केन्द्रों में बच्चों को दिया जाने वाले मध्यान्ह भोजन की भोजन पकाने से लेकर सारी व्यवस्थाएं यही स्वसहायता समूह करते हैं। महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (मनरेगा) ने भी वृक्षारोपण एवं रोपे गये पौधों की सिंचाई के काम के जरिए उनके जीवनयापन की गारंटी दी है। इन योजनाओं से पिछड़े इलाके की इन गरीब महिलाओं की कई समस्याओं का खात्मा हुआ है।दोनों योजनाओं में रोजगार पाने के साथ ही इलाके की व अपनी तरक्की की आशा संजोए ये महिलाएं पूरे समर्पण के साथ काम कर रही हैं। दुर्गा स्वसहायता समूह की अध्यक्ष श्रीमती शांति बाई बताती हैं कि जब दोनांे स्वसहायता समूहों की शुरूआत हुई, तो उस समय स्वरोजगार और गरीबी उन्मूलन इनके लक्ष्य थे। तब से ये महिलाओं की समाज में भागीदारी बढ़ाने में सफल रहे हैं। इसी समूह की सचिव श्रीमती गोमती बाई बताती हैं कि वृक्षारोपण के लिए ट्रीगार्ड बनाने हेतु अब समूह ईंटों का निर्माण भी करेगा। गोमती बाइ का कहना है कि समूहों ने उन्हें उनके परिवारों में धन नियंत्रक और धन प्रबंधक बनाया है।समूहों की सक्रिता से पहलीबार समूहों की महिलाओं व परिवारजनों के रहन-सहन और जीवनशैली में परिवर्तन आया है। कई महिला सदस्यों ने मोबाइल फोन खरीद लिये हैं। श्रीमती गोमती बाई को छोड़कर शेष सभी महिलाएं गैर पढ़ी लिखी हैंं, लेकिन वे अपने बच्चों को पढ़ने स्कूल भेजती हैं। पैसे आने की वजह से उनके परिवार का जीवन स्तर सुधर रहा है। लेकिन उनके लिए इतनी कमाई काफी नहीं है। इससे ज्यादा पैसे कमाने के लिए वे अभी और काम करना चाहती हैं। अपनी राह खुद बनाने वाली इन महिलाओं के लिए नये संघर्ष की शुरूआत तो अब हुई है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

Video

Page Views

  • Last day : 1520
  • Last 7 days : 5913
  • Last 30 days : 30393
x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved ©2020 MadhyaBharat News.