Since: 23-09-2009

  Latest News :
बाबा साहब के सपनों को साकार करने वाली सरकार चुनें : मायावती.   भाजपा का संकल्प पत्र देशवासियों की एंबीशन पूरा करने का मिशन- प्रधानमंत्री.   फिल्म अभिनेता सलमान खान के घर के बाहर फायरिंग.   इजरायल-ईरान संघर्ष के हालात पर भारत की दोनों पक्षों से संयम बरतने की अपील.   प्रधानमंत्री मोदी की गेमिंग क्षमता से प्रभावित हुए युवा गेमर्स ने उन्हें ‘नमो ओपी’ दिया नाम.   अगर नरेन्द्र मोदी प्रधानमंत्री नहीं होते तो राम मंदिर का निर्माण नहीं हो पाता : राज ठाकरे.   प्रदेश में सबसे ज्यादा अपराध आदिवासी वर्ग पर हो रहे हैं: जीतू पटवारी.   44 घंटे तक रेस्क्यू के बाद भी बोरवेल में गिरे मासूम की नहीं बच पाई जान.   भाजपा ने बाबा साहब के योगदान को नई पहचान दीः नरेन्द्र मोदी.   जिन लोगों ने बाबा साहब को संसद जाने से रोका वही उनके नाम पर वोट मांग रहे : मुख्यमंत्री डॉ. यादव.   रीवा में बोरवेल में गिरे मासूम को निकालने के लिए रेस्क्यू जारी.   मां के साथ खेत पर गई दो बहनें तालाब में डूबी.   सड़क दुर्घटना में दो सगे भाइयों समेत तीन युवकों की मौत.   मैनपाट में घर में लगी आग की चपेट में आकर तीन बच्चे जिंदा जले.   बसपा ने छग की तीन सीटों के लिए की उम्मीदवारों की घोषणा.   सरोना ट्रेचिंग ग्राउंड को 5 दिन के भीतर साफ करने का अल्टीमेटम.   कोरबा में स्कूल वैन दुर्घटनाग्रस्त सात घायल.   कांग्रेस उम्मीदवार कवासी लखमा पर तीन थानों में दर्ज हुई एफआईआर.  

मुरैना News


morena, Lokayukta team , Deputy Director

मुरैना। भैस पालन के लिए करीब 6 लाख रूपए का लोन स्वीकृत होने पर उसकी सब्सिडी को स्वीकृत कराने के एवज में अपने ही विभाग के कर्मचारी से रिश्वत लेने वाले पशुपालन एवं डेयरी विभाग के उपसंचालक आरपीएस भदौरिया और उनके सहायक को लोकायुक्त पुलिस ने 3 हजार की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ लिया। हालांकि 7 हजार रूपए की रिश्वत वह पहले ले चुके थे। लोकायुक्त टीम ने उनके हाथ धुलवाए तो गुलाबी हो गए। उनके खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। पशु चिकित्सा विभाग नूराबाद में पदस्थ कर्मचारी सुरेन्द्र मावई के भाई के नाम विद्यासागर योजना में 6 लाख का लोन स्वीकृत हुआ था। सब्सिडी के 25 प्रतिशत राशि को स्वीकृत करने के एवज में उपसंचालक आरपीएस भदौरिया और उनके सहायक 10 फीसदी रिश्वत की मांग कर रहे थे। सुरेन्द्र द्वारा उन्हें 7 हजार रूपए रिश्वत थमा दी गई थी। लेकिन वह तीन हजार और मांग रहे थे। रकम पूरी दिए बिना वह सब्सिडी स्वीकृत नहीं कर रहे थे। परेशान सुरेद्र ने लोकायुक्त के अधिकारियों को जाकर पूरी बात बताई। इसके बाद लोकायुक्त टीम ने पूरी कार्ययोजना तैयार की। मंगलवार को सुरेन्द्र उन्हें रिश्वत देने के लिए उनके कार्यालय पहुंचा। पीछे से लोकायुक्त के डीएसपी विनोद सिंह, इंस्पेक्टर कविन्द्र सिंह चौहान और टीम के अन्य सदस्य भी छिपकर बैठ गए। जैसे ही सुरेन्द्र ने रिश्वत दी तुरंत ही लोकायुक्त की टीम ने जाकर पकड़ लिया।   फरियादी सुरेन्द्र ने लोकायुक्त टीम को बताया कि जब रिश्वत के लिए उसने आना कानी की तो उपसंचालक का कहना था कि पैसों के लिए तो मैं अपने बाप को नहीं छोड़ता। तु हे तो पैसे देने होगा। उन्होंने यह भी कहा कि एक गुर्जर बिना पैसे दिए काम कराकर चला गया था।मैं बिना पैसे दिन काम नहीं करूंगा। एसपी लोकायुक्त रामेश्वर यादव ने बताया कि उपसंचालक को 3 हजार की रिश्वत लेते हुए लोकायुक्त की टीम ने रंगे हाथ पकड़ा है। भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया जाएगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 April 2024

morena, Railway bridge ,river collapsed

मुरैना। जिले के जौरा क्षेत्र में क्वारी नदी पर बना रेलवे का (नैरोगेज लाइन) पुल अचानक ढह गया। इससे पुल को डिस्मेंटल कर रहे 7 मजदूर 50 फीट नीचे गिर कर गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को तुरंत जौरा के अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां से प्राथमिक उपचार के बाद पांच को गंभीर हालत में मुरैना के जिला अस्पताल रेफर किया गया है।     इस संबंध में मिली जानकारी में सामने आया है कि घटना कैलारस थाना क्षेत्र के सिकरोदा गांव के पास की है। सब डिविजनल मजिस्ट्रेट प्रदीप तोमर ने बताया कि यहां छोटी रेलवे लाइन का कुंवारी नदी पर पुल बना है। लेकिन ब्रॉडगेज रेलवे ट्रेक डाले जाने के बाद यह करीब 100 साल पुराना नैरोगेज रेलवे ट्रैक अनुपयोगी हो गया था इसलिए रेलवे द्वारा इस पुल को तोड़ा जा रहा है। कुछ दिन पहले ही रेलवे द्वारा पुल से लोहे की एंगल और गर्डर आदि को मजदूरों से खुलवाना शुरू किया था। मंगलवार सुबह डिस्मेंटल के दौरान यह पुल अचानक ढह गया। इस दौरान वहां पुल के एंगल खोल रहे सात मजदूर पुल से करीब 50 फीट नीचे गिर गए और गंभीर रूप से घायल हो गए। मौके पर मौजूद रेलवे के कर्मचारी व अन्य लोगों ने उन्हें तुरंत जौरा के अस्पताल पहुंचाया। घायलों में पांच की हालत गंभीर बताई जा रही है। उन्हें मुरैना के जिला अस्पताल भेज दिया गया है, जबकि दो घायलों का जौरा के अस्पताल उपचार जारी है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 April 2024

morena, Hail fell ,unseasonal rain

मुरैना/दतिया। मौसम विभाग के अलर्ट के अनुसार शुक्रवार की शाम अचानक भिंड और मुरैना जिले भर में धूल भरी आंधी सहित अनेक ग्रामीण इलाकों में बारिश के साथ 20 मिनट तक ओले गिरने से लोग आश्चर्यचकित रह गए, हालांकि इस बारिश और ओले गिरने से फसलों को कोई खास नुकसान नहीं है लेकिन खलिहान में रखी कटी हुई फसल में काफी नुकसान का अनुमान है।   शुक्रवार की शाम जिले के दिमनी, माता बसैया, सिहोनिया एवं स्टेशन रोड थाना क्षेत्र के अनेक गांवों में लगभग 2 मिनट तक छोटे-छोटे ओले गिरे और बारिश हुई, जबकि जिला मुख्यालय पर धूल भरी आंधी ने लोगों को परेशान कर दिया। उल्लेखनीय है कि मौसम विभाग ने पहले ही चंबल संभाग में आंधी, ओला व पानी की संभावना बताई थी।     करुआ गांव में पड़े ओले, दतहरा में खेत में पसरी फसल   जिले के अनेक क्षेत्रों शुक्रवार की शाम आंधी के साथ बारिश एवं ओले ने तबाही मचा दी। जिला मुख्यालय से सटे आसपास के ग्रामीण इलाकों में जमकर ओले गिरे हैं, जिससे खेतों में खड़ी फसल पसर गई है और किसानों को भारी नुकसान हुआ है। मुरैना मुख्यालय के पास करुआ गांव में भी ओले गिरे हैं तथा दतहरा गांव में आंधी पानी एवं ओले के कारण फसल पसर गई है, जिससे किसानों को काफी नुकसान हुआ है।     तेज आंधी व बूंदा बांदी के साथ गिरे ओले, फसलों को नुकसान   दतिया के भांडेर में शुक्रवार की शाम 5 बजे जिले में तेज आंधी और हल्की बौछार के साथ बूंदाबादी हुई जिससे कई गांवों की फसलो पर प्रभाव पड़ा ग्राम पंचायत कामद के पास स्थित सिमरिया में एक बार फिर किसानों के लिए आसमान से आफत की बारिश हुई है। तेज हवा और पानी के साथ ओलों की बरसात भी शुरू हो गई। इस दौरान बड़े आकार के ओले गिरने से सिमरिया गांव की फसलें प्रभावित हुई हैं।   शांम 5 बजे आसपास के करीब दो दर्जन कई गांवों में बूंदाबांदी हुई वहीं कामद गाँव के पास स्थित ग्राम सिमरिया में बूंदाबांदी के साथ ओले भी गिरने लगे। ग्रामीणों ने बताया शुक्रवार को मौसम शांम को अचानक बदल गया था। ओले गिरने से फसलों में नुकसान होने की खबर मिली हैं। वहीं ओले गिरने से कई घरों के कवेलू भी टूट गए।   बेमौसम हुई इस ओलावृष्टि ने किसानों की उम्मीदों पर पानी फेर दिया है। कटने के लिए तैयार खड़ी फसल को बूंदा बांदी एवं ओलावृष्टि से भारी नुकसान पहुंचा। कई जगह फसलें आड़ी हो गई। जिन किसानों ने फसल काटकर खलिहान में रख छोड़ी थी, ओले की मार तथा पानी लगने से उसकी गुणवत्ता भी प्रभावित होगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 March 2024

morena, Head-on collision , one dead

मुरैना। बागचीनी थाना क्षेत्र के तिकनी मोड पर शुक्रवार की शाम दो बाइक सवारों की आमने सामने की भिड़ंत हो गई। जिसमें बाइक पर सवार एक युवक की मौत हो गई, वहीं तीन गंभीर रूप से घायल हो गए। जिन्हें इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहीं मृतक युवक के शव को पीएम हाउस पहुंचाया गया। जानकारी के मुताबिक बल्ला पुरा गांव निवासी रामवती पत्नी नरेंद्र कुशवाह उम्र 25 साल अपने भाई मुनेश पुत्र कप्तान कुशवाह उम्र 20 साल के साथ बाइक से जौरा से मुरैना की तरफ आ रही थी। इसी तरह मुरैना से जौरा की तरफ दो भाई जितेंद्र पुत्र मुन्ना जाटव उम्र 22 साल व धर्मेंद्र जाटव पुत्र मुन्ना जाटव 23 साल बाइक से जा रहे थे। इसी बीच तिकनी मोड पर दोनों की बाइकों की भिड़ंत हो गई। इस भिड़ंत में जितेंद्र जाटव निवासी इंद्रावास कालोनी जौरा की मौत हो गई। वहीं उसका भाई धर्मेंद्र सहित दूसरी बाइक पर सवार रामरती व मुनेश कुशवाह घायल हो गए। घायलों को इलाज के लिए पुलिस की मदद से जिला अस्पताल लाया गया। जहां उनका इलाज किया जा रहा है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 March 2024

morena, Three children drowned ,washing clothes

मुरैना। पहाडग़ढ़ थाना क्षेत्र के परसौटा गांव में उस समय हादसा हो गया जब तीन बच्चे नहर किनारे कपड़े धो रहे थे। कपड़े धोते समय बच्चे अचानक नहर में गिर गए। बच्चों को पानी में डूबता देख वहां मौजूद ग्रामीण नहर में कूद पड़े और दो बच्चों को सुरक्षित बाहर निकाल लाए, लेकिन एक बच्ची का सुराग देर शाम तक नहीं लग सका था। हालांकि एसडीआरएफ का दल बच्ची को काफी देर तक खोजता रहा। बताया जाता है कि मडिन का पुरा गांव निवासी अंजली पुत्री रामलखन कुशवाह उम्र 14 साल, छोटू उर्फ प्रमोद पुत्र जसवंत कुशवाह उम्र 14 साल, व अंकिता पुत्री सियाराम कुशवाह उम्र 12 साल गुरूवार की दोपहर तीन बजे परसोटा नहर पर कपड़े धोने के लिए गए थे। इसी बीच अंकिता घाट से फिसलकर नहर में चली गई। अंकिता को नहर के पानी में डूबते देख छोटू व अंजलि भी पानी में उतर गए। लेकिन पानी का बहाव ज्यादा होने से वह भी पानी में बहने लगे। बच्चों को पानी में डूबता देख आस पास के ग्रामीणों ने नहर में छलांग लगाकर दोनों बच्चों छोटू व अंजलि को तो नहर से बाहर निकाल लिया, लेकिन अंकिता का पता नहीं चला। तुरंत ही पुलिस को सूचना दी गई। जिसके बाद पुलिस व एसडीआरएफ की टीम पहुंच गई। जहां अंकिता की खोज पानी में शुरू कर दी। लगभग तीन घंटे नहर में रेस्क्यू चलने के बाद भी अंकिता का कुछ पता नहीं चला। जिसके बाद देर शाम होने पर रेस्क्यू को बंद कर दिया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 March 2024

morena,  economic injustice, Rahul Gandhi

मुरैना। भारत जोड़ो न्याय यात्रा के मुरैना पहुंचने पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने केन्द्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि किसानों को उपज के सही दाम नहीं मिल रहे हैं और युवाओं को रोजगार नहीं मिल रहा है। आज दोपहर बाद राजस्थान से कांग्रेस की भारत जोडो न्याय यात्रा ने मध्यप्रदेश के मुरैना जिले की सीमा में प्रवेश किया। उन्होंने देश में जातीय जनगणना की मांग को दोहराते हुए कहा कि आदिवासी, दलित व पिछड़ा वर्ग की भागीदारी मीडिया, उद्योग, शिक्षा व अन्य क्षेत्रों में नहीं है। उन्होंने किसानों को भरोसा दिलाया कि दिल्ली में कांग्रेस सरकार बनने पर किसानों को उचित समर्थन मूल्य दिया जायेगा। मुरैना में चम्बल नदी के पास प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी व राज्यसभा सांसद अशोक सिंह, पूर्व विधायक सत्यपाल सिंह सिकरवार नीटू ने राहुल गांधी का स्वागत किया। आमसभा को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ मध्यप्रदेश विधानसभा में विपक्ष के नेता उमंग सिंगार ने भी सम्बोधित किया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 March 2024

morena, Heavy rain , cool weather

मुरैना। शहर में रविवार की शाम को आसमान पर घुमड़ रहे घने बादलों के चलते बूंदाबांदी सुरू हो गई, जो देर रात तेज बारिश में तब्दील हो गई। इससे सोमवार सुबह मौसम में हल्की ठण्डक घुल गई। इससे तापमान में लगभग एक डिग्री की गिरावट हो सकती है। इस पानी से सरसों, गेहूं, चना सहित दलहन फसलों को कोई नुकसान नहीं है। मौसम विभाग ने अगले दो दिन ऐसा ही ऐसा ही मौसम रहने की संभावना जताई है।     मौसम विभाग की मानें तो देश में पश्चिमी विछोभ के कारण मौसम ने तेज गति से बदलाव देखा जा रहा है। मौसम विशेषज्ञों द्वारा बीते सप्ताह पूर्वानुमान घोषित किया था। उसके अनुसार ही विगत दिवस ही मौसम काफी बिगड़ा हुआ दिखाई दिया। सोमवार को भी आसमान पर घने बादल छाये होने के कारण रात में पानी की संभावना बन रही है। हालांकि, मौसम के पूर्वानुमान अनुसार कल 6 फरवरी से मौसम में सुधार होने की संभावना है।   मौसम विभाग के अनुसार, रविवार को जिले में न्यूनतम तापमान 14 डिग्री व उच्चतम तापमान 20 डिग्री पर दर्ज किया गया। दोनों तापमान नजदीक होने के कारण देर रात बारिश के साथ कहीं-कहीं बहुत हल्के ओले पडऩे की सूचना है। अंचल के मौसम विशेषज्ञों का मानना है कि आगामी दो दिवस तापमान में हल्की गिरावट के कारण सर्दी का असर रहेगा। इसके बाद आसमान साफ होने पर वातावरण सामान्य हो जायेगा। न्यूनतम तापमान 9 से 10 डिग्री तथा उच्चतम तापमान 21 से 22 डिग्री रहने की संभावना है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 February 2024

morena, three month old baby , head with a stick

मुरैना। मुरैना जिले के सुमावली थाना क्षेत्र में गुरुवार रात कुछ लोगों ने एक युवक के घर में घुसकर पर लाठी और डंडों से हमला कर दिया। इस दौरान युवक की गोद में मौजूद उसकी तीन माह की मासूम बच्ची को लाठी से चोट लग गई। वारदात के बाद आरोपित मौके से फरार हो गए। इधर बदहवास पिता बच्ची को लेकर अस्पताल पहुंचा। जहां डॉक्टर ने बच्ची को बचाने का काफी प्रयास किया लेकिन उसकी मौत हो गई। पुलिस मामले में जांच कर रही है।   जानकारी अनुसार सुमावली क्षेत्र के दुल्हनी गांव निवासी कौशल यादव गुरुवार दोपहर को अपनी पत्नी के साथ बाजार गया था। यहां उसका दुल्हेनी के ही बलवीर यादव से किसी बात पर विवाद हो गया। विवाद इतना बढ गया कि कौशल और बलवीर में हाथापाई हो गई। इसके बाद कौशल घर लौट आया। देर शाम को कौशल अपने घर में तीन माह की बेटी अंजलि को गोद में खिला रहा था। इस दौरान बलवीर कुछ लोगों के साथ कौशल के घर पहुंचा और लाठी डंडो से उस पर हमला कर दिया। हमले के दौरान एक लाठी बच्ची के सिर में लगी और वह बेहोश हो गई। लाठी के वार से कौशल के हाथ में भी चोट आई। बच्ची का सिर सूज गया था। इसके बाद आरोपित तुरंत मौके से भाग निकले। इधर कौशल तीन माह की मासूम को लेकर जिला अस्पताल पहुंचा। डॉक्टरों ने उसे आईसीयू में रखा, लेकिन सिर में लाठी की चोट गंभीर होने से उसकी मौत हो गई। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम हाउस में रखवाया है। पुलिस अभी मामले की जांच रही है। पोस्टमार्टम के बाद आगे की कार्यवाही की जाएगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 December 2023

morena, Workers , Narendra Singh Tomar

मुरैना। केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि बूथ कार्यकर्ता सभी मतदाताओं से संपर्क करें, उनकी बात सुनें और अपनी बात भी उससे कहें एवं और उन्हें भाजपा के पक्ष में मतदान करने के लिये प्रेरित करें। भाजपा की केंद्र और मध्य प्रदेश सरकार की उपलब्धियों के बारे में उन्हें बताएं। यदि हम अपनी बात समझाने में सफल हो गये तो निश्चित तौर पर हम रिकॉर्ड मतों से जीतेंगे। प्रत्येक कार्यकर्ता मतदाता को बूथ तक लेकर आए। मजबूती के साथ सभी को काम करना होगा। भाजपा की प्रचंड विजय तय है।       केन्द्रीय मंत्री तोमर बुधवार को दिमनी में जनसभा एवं पोरसा व अंबाह में रोड शो को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि भाजपा की डबल इंजन की सरकार द्वारा कराए गए विकास कार्यों के बारे में जनता को बताएं। मुरैना,पोरसा,अंबाह और दिमनी क्षेत्र में उनके प्रयास और भाजपा सरकार के सहयोग से मेडीकल कॉलेज, हॉर्टीकल्चर कॉलेज,केंद्रीय विद्यालय, पिनाहट पुल आदि तमाम योजनाएं भाजपा के शासनकाल में ही संपन्न हुई है। आगे जो योजनाएं रह गई हैं तो उन्हें पूरा करने के लिये एक जुट होकर काम करें और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 51 प्रतिशत वोट का जो लक्ष्य दिया है, उस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए हर कार्यकर्ता को बूथ पर मजबूती के साथ काम करना है।       विकास में कोई कमी नहीं छोड़ी तोमर ने कहा कि पार्टी के लिए एक-एक मतदाता महत्वपूर्ण है, इसलिए अपने बूथ के एक-एक मतदाता की सूची को साथ लेकर उनसे संपर्क करें और आने वाली 17 तारीख को वोट करने के लिये बूथ तक पंहुचाए। उन्होंने मतदाताओं को विश्वास दिलाते हुए कहा कि आपके क्षेत्र से मैं सांसद हूं, क्षेत्र बड़ा होने के कारण मैं हर गांव, घर में नहीं पहुंच पाया, लेकिन जब भी निकलता था तो महीने में दो चक्कर दिमनी के लग ही जाते थे। भले ही मैं हर घर में नहीं पहुंच पाया, हर व्यक्ति से नहीं मिल पाया, लेकिन क्षेत्र के विकास में मैंने कोई कोर कसर नहीं छोडी है। मैं अब विधायक बना तो प्रत्येक कार्यकर्ता अपने आपको विधायक समझे। भाजपा में कार्यकर्ता ही सर्वोपरि और स्थाई है। कार्यकर्ता ही पार्टी की असली ताकत है, इसलिए आपके संकल्प से भाजपा की प्रचंड बहुमत से फिर सरकार बनेगी।       यह समय भारत के उत्थान का समय उन्होंने कहा कि जब से प्रधानमंत्री मोदी ने देश का नेतृत्व संभाला है, तब से दुनिया का कोई भी देश हो भारत की मौजूदगी के बिना उसका एजेंडा तय नहीं होता है। प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भारत को रुकना नहीं है, किसी के आगे झुकना नहीं है। बस आगे ही बढ़ते जाना है। यह समय भारत के उत्थान का समय है। ये सिलसिला जारी रहे, इसके लिये भाजपा को अपने वोट की ताकत से मजबूत बनाएं। आने वाली 17 तारीख को कमल के फूल के सामने वाला बटन ही दबाना है किसी के बहकावे में नहीं आना है। आपका वोट बहुत कीमती है इसलिये इसे व्यर्थ खराब नहीं करना है। जो सरकार बनाने का दावा कर रहे हैं उनकी सरकार तो वैसे भी नहीं आने वाली है। इसलिये इनके झूठे वादों में आपको नहीं फंसना है।       रोड शो में उमड़ा जनसैलाब जनसभा से पूर्व केन्द्रीय मंत्री तोमर ने पोरसा के बैराड और अंबाह में रोड शो किया। इस दौरान तोमर के साथ अंबाह से भाजपा प्रत्यासी कमलेश जाटव और फिल्म अभिनेता कॉमेडियन जॉनी लीवर ने तोमर के साथ रथ पर एवं उनके सैकड़ों समर्थकों ने बाइक्स पर सवार होकर रैली निकालते हुए शहर में रोड शो किया। इस दौरान अपार जनसमूह में सड़क के दोनों खड़े लोगों ने तोमर को फूल बरासकर और मालाएं पहनाकर उन्हें पूरा समर्थन देने का भरोसा दिलाया। रोड के खत्म होने के बाद तोमर दिमनी चुनाव कार्यालय पर बघेल समाज की एक बैठक भी ली।    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  15 November 2023

morena, BJP worked ,Tomar

मुरैना। समाज में अंतिम पंक्ति के व्यक्ति के विकास और कल्याण के लिए भाजपा की मप्र एवं केन्द्र सरकारें लगातार जनहितैषी योजनाएं चला रहीं है। आयुष्मान भारत, किसान सम्मान निधि, उज्जवला योजना सहित कई अन्य योजनाओं से समाज के प्रत्येक वर्ग के जरूरतमंद पिछड़े हुए लोगों को लाभ मिल रहा है। जनउत्थान और विकास कार्यों को गति देने के लिए एक बार फिर से भाजपा को आशीर्वाद देकर मध्यप्रदेश में भाजपा की सरकार बनाने का काम करें।    यह बातें भाजपा के स्टार प्रचारक केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने सोमवार को अंबाह सीट से भाजपा के प्रत्याशी कमजलेश जाटव के समर्थन में सघन जनसंपर्क करते हुए नुक्कड़ सभाओं में कहीं। श्री तोमर ने सोमवार को भाजपा प्रत्याशी कमलेश जाटव के समर्थन में ग्राम अम्लिहेड़ा, परीक्षत का पुरा, रुधावली, विण्डवा, विजयगढ़, महुआ, गढिय़ा, नगरा मोड़, रजौधा, बड़ी कौंथर, जौटई और सेंथरा अहीर गांवों में मतदाताओं से संपर्क कर भाजपा के लिए वोट मांगें। केन्द्रीय मंत्री श्री तोमर के साथ अंबाह प्रत्याशी कमलेश जाटव भी थे। नुक्कड़ सभाओं में केन्द्रीय मंत्री श्री तोमर ने कहा कि दिमनी, अंबाह क्षेत्र की जनता का आर्शीवाद सदैव भाजपा को मिलता रहा है। फिर से जनता ने आर्शीवाद दिया और मप्र में भाजपा की सरकार बनी तो दिमनी, अंबाह सहित पूरे जिले और प्रदेश में विकास कार्यों को दोगुनी रफ्तार से पूरा किया जाएगा।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 November 2023

morena, Make Congress victorious , Digvijay Singh

मुरैना। जब मोदी प्रधानमंत्री बने तो उन्होंने घोषणा की कि वे विदेशों से काला धन भारत वापस लाएंगे। उनकी घोषणा को 10 वर्ष होने जा रहे हैं। परंतु वे 25 लाख करोड़ काला धन विदेशों से तो न ला सके बल्कि भारत की जनता का धन जरूर विदेश चला गया। उन्होंने अपने उद्योगपतियों को बैंकों से ऋण दिलवाया और फिर उन्होंने उस ऋण को माफ करवा दिया और वह पैसा लेकर उद्योगपति विदेश चले गए।   उक्त बात पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने बुधवार को कैलारस में पुरानी सब्जी मंडी रोड पर आयोजित आमसभा में कही। दिग्विजय सिंह ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह पर बार करते हुए कहा कि किसी किसान को एक बीघा में 2 करोड़ का मुनाफा नहीं होता होगा, परंतु शिवराज सिंह को यह मुनाफा जरूर होता है। उन्होंने सिंधिया पर कटाक्ष करते हुए कहा कि दगेबाजों ने कांग्रेस की सरकार को गिराया। क्या उन दगेबाजों का साथ दोगे। लोगों ने हाथ उठाकर नहीं का जवाब दिया। आमसभा में दिग्विजय सिंह ने घोषणा की कि कांग्रेस सरकार आने पर शक्कर कारखाना चालू करने पर काम करेंगे एवं व्यापारी भाइयों की सुरक्षा की गारंटी लेंगे। उधर सबलगढ़ में मंडी संतर नंबर एक में पूर्व मुख्यमंत्री राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह द्वारा कांग्रेस के समर्थन में आज चुनावी सभा आयोजित की गई। जिसमें उनके द्वारा कहा गया कि प्रदेश में ऐसी सरकार बनाएं जिससे वर्तमान सरकार में हो रहे भ्रष्टाचार को रोका जा सके। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह को घोषणा वीर मुख्यमंत्री बताते हुए कहां कि प्रदेश में इस समय बेरोजगारी की समस्या सबसे महत्वपूर्ण है। बेरोजगार युवा अन्य प्रदेशों में जाकर पलायन कर रहे हैं। जिससे उनके परिवार को भूखों मरने की नौबत आ गई है। मेरे समय में पंचायती राज प्रदेश में लागू किया गया। जिससे गरीब किसान अपने नामांतरण बंटवारे जो पंचायत के द्वारा ही निबटा दिए जाते थे। आज ग्रामीणों को अपने नामांतरण के लिए पटवारी के चक्कर लगाने पड़ रहे हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  8 November 2023

bhopal, Chief Minister , drenched in rain

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को मुरैना जिले के जौरावासियों को अभूतपूर्व सौगात देते हुए नगर पंचायत जौरा को नगरपालिका बनाने की घोषणा की। मुख्यमंत्री द्वारा दी गई सौगात का जौरावासियों ने करतल ध्वनि से आभार माना। मुख्यमंत्री ने जौरा के साथ ही जिले के सबलगढ़ और कैलारस में बहनों के सशक्तिकरण के लिये किये जा रहे कार्यों की जानकारी देते हुए कहा कि बहनों के जीवन को बेहतर बनाना ही मेरा मकसद है। उन्होंने कहा कि लाड़ली बहनों के खाते में 10 अक्टूबर को 1250 रुपये आएंगे। आगे बढ़ाकर राशि को तीन हजार रुपये तक किया जाएगा।   मुख्यमंत्री चौहान शुक्रवार को जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान पानी में भीगते हुए जौरा की जनता को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि नगर पंचायत को नगरपालिका बनाने की बहुप्रतीक्षित मांग आज पूरी हो गई है। भगवान महाकालेश्वर ने मेरी प्रार्थना को स्वीकार कर पूरे प्रदेश को बारिश कर राहत प्रदान की है। मुरैना जिले में सुबह से ही बारिश हो रही है। उन्होंने लाड़ली बहनों को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश में महिला सशक्तिकरण के क्षेत्र में पहले लाड़ली लक्ष्मी योजना और उसके बाद लाड़ली बहना योजना के माध्यम से महिलाओं के सशक्तिकरण का कार्य किया जा रहा है। स्व-सहायता समूह की महिलाओं को भी आर्थिक संबल प्रदान करने हेतु प्रदेश में कार्य किया जायेगा। स्व-सहायता समूह की महिलाएं, राशन की दुकान, स्कूली बच्चों की यूनीफॉर्म सिलने के साथ-साथ प्रदेश में दलिया बनाने के कारखानों का संचालन भी करेंगी।   मुख्यमंत्री ने कहा कि अब हमारी माता-बहनों को पानी लाने घर से दूर नहीं जाना पड़ेगा। अब पाइप लाइन बिछाकर हर घर में नल की टोंटी से पानी उपलब्ध कराया जायेगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा लागू की गई जन कल्याणकारी योजनाओं और प्रदेश की कल्याणकारी योजनाओं के माध्यम से गाँव, गरीब और किसानों के जीवन में खुशहाली लाने का कार्य तेजी से किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि गरीबों को निःशुल्क इलाज उपलब्ध कराने के उद्देश्य से आयुष्मान कार्ड बनाकर सुरक्षा कवच प्रदान किया है।   महिला सशक्तिकरण की दिशा में मध्यप्रदेश में हुआ बेहतरीन काम: केन्द्रीय मंत्री तोमर केन्द्रीय कृषि एवं किसान-कल्याण मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि मध्यप्रदेश में महिला सशक्तिकरण की दिशा में बेहतरीन कार्य हुआ है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री चौहान मुरैना आए हैं तो खाली हाथ नहीं आए हैं, विकास कार्यों की सौगातें लेकर आए हैं। महिला सशक्तिकरण के क्षेत्र में मुख्यमंत्री चौहान के नेतृत्व में मध्यप्रदेश में अभूतपूर्व कार्य हुए हैं, जिनकी सराहना सम्पूर्ण देश में हो रही है। तोमर ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में देश में विकास और जनकल्याण के कार्य किए जा रहे हैं। केन्द्र सरकार की योजनाओं और मध्यप्रदेश सरकार की योजनाओं के माध्यम से आम लोगों के जीवन को बेहतर बनाने की दिशा में मध्यप्रदेश देश में अपनी अलग पहचान बना चुका है। खजुराहो सांसद वीडी शर्मा ने सभाओं को संबोधित करते हुए कहा कि मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री चौहान के नेतृत्व में आमजन के जीवन को बेहतर और खुशहाल बनाने की दिशा में ऐतिहासिक कार्य हो रहे हैं। प्रदेश के विकास के साथ-साथ महिला सशक्तिकरण, किसानों के जीवन में खुशहाली लाने और हर जरूरतमंद को योजनाओं के माध्यम से लाभान्वित करने का कार्य किया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 September 2023

morena, Five workers died , poisonous gas

मुरैना। मध्य प्रदेश के मुरैना जिलान्तर्गत नूराबाद थाना क्षेत्र के ग्राम धनेला स्थित साक्षी फूड प्रोडक्ट्स फैक्टरी में बुधवार सुबह जहरीली गैस से पांच मजदूरों की मौत हो गई। सूचना मिलने पर पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंचे और फैक्टरी को खाली कराकर राहत एवं बचाव कार्य शुरू किया। मृतकों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया गया है, जबकि सांस लेने में तकलीफ की शिकायत पर कुछ मजदूरों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मृतकों में तीन सगे भाई हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने हादसे पर दुख व्यक्त किया है।   पुलिस के अनुसार, जडेरुआ औद्यागिक क्षेत्र के ग्राम धनेला स्थित साक्षी नामक फैक्टरी में चेरी, गुलकंद और दूसरे फूड प्रोडक्ट्स बनाए जाते हैं। यहां टैंक में पपीते डालकर चेरी बनाई जाती है। बुधवार को सुबह फैक्टरी में काम चल रहा था। यहां पर काम कर रहे पांच मजदूर अचानक फैक्टरी में केमिकल से भरे टैंक में गिर गए। जब तक उन्हें बाहर निकाला जाता, तब तक उनकी मौत हो चुकी थी। घटना के बाद फैक्टरी को बंद कर दिया गया और पांचों शवों को पोस्टमार्टम के लिए मुरैना जिला अस्पताल ले जाया गया। घटना की जानकारी मिलने पर कलेक्टर अंकित अस्थाना और पुलिस अधीक्षक शैलेंद्र चौहान भी मौके पर पहुंच गए। एसपी शैलेन्द्र चौहान ने पांच मजदूरों की मृत्यु की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है। मृतकों की पहचान 35 वर्षीय रामौतार पुत्र रामकिशन गुर्जर, 40 वर्षीय रामनरेश पुत्र रामकिशन, 30 वर्षीय वीर सिंह पुत्र रामकिशन तीनों निवासी ग्राम टिकटोली, 40 वर्षीय गणेश पुत्र बद्री गुर्जर और 28 वर्षीय गिर्राज पुत्र मुन्नी सिंह दोनों निवासी ग्राम घुरैया वसई निवासी के रूप में हुई है। पुलिसकर्मी मौके पर मौजूद हैं और मामले की जांच की जा रही है। एएसपी अरविंद सिंह ठाकुर ने बताया कि शुरुआती जांच में सामने आया है कि मजदूर टैंक की सफाई करने के लिए उतरे थे। संभवत: टैंक में जहरीली गैस थी। हालांकि इसकी असलियत तो पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पुष्ट हो पाएगी। फैक्टरी कौशल गोयल की पत्नी के नाम पर है। मामले की जांच जारी है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट के माध्यम से हादसे पर दुख व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि मुरैना के ग्राम धनेला में जहरीली गैस के रिसाव से हुई दुर्घटना से हृदय व्यथित है। दुःख की इस विकट परिस्थिति में मेरी संवेदनाएँ शोकाकुल परिजनों के साथ हैं। मैं ईश्वर से दिवंगत आत्माओं को अपने श्री चरणों में स्थान देने तथा परिजनों को यह गहन दु:ख सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना करता हूं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 August 2023

morena,  young man shot dead, dispute

मुरैना। बागचीनी थाना क्षेत्र में रविवार की दोपहर एक युवक ने अपनी पत्नी, साली व साले को मौत के घाट उतार दिया। तीनों को युवक ने अपने एक साथी के साथ मिलकर कट्टे से गोली मारी थी। हत्या करने का कारण घरेलू विवाद है। बताया जाता है कि युवक की मां के साथ उसके साले, पत्नी व साली ने मारपीट की थी। इस बात से युवक भारी क्रोध में था, संभवत: इसी वजह से उसने इतना बड़ा कदम उठा लिया। फिलहाल हत्यारा व उसका साथी फरार है। पुलिस दोनों की तलाश कर रही है। जानकारी के अनुसार बागचीनी गांव निवासी त्रिलोक सिंह परिहार का अपनी पत्नी राखी से दो-तीन दिनों से घरेलू विवाद चल रहा था। रविवार को राखी का भाई सुघराज सिंह निवासी ग्राम टोरामोरा, तहसील अटेर, जिला भिण्ड अपनी बहन जूली के साथ त्रिलोक के घर आया हुआ था। यहां पर काफी विवाद हुआ और राखी तथा उसके भाई सुघराज तथा बड़ी बहन जूली ने त्रिलोक की मां की पिटाई कर दी और सामान लेकर अपने गांव के लिए रवाना हो गए। राखी अपने भाई एवं बहन के साथ बस स्टैंड में बस पर सवार होने वाली ही थी कि तभी पीछे से त्रिलोक परिहार अपने एक अन्य साथी के साथ कट्टा लिए आया और ताबड़तोड़ पांच फायर कर दिए। जिससे तीनों को गोली लगी। राखी एवं उसके भाई सुघराज की घटनास्थल पर ही दर्दनाक मौत हो गई, जबकि जूली को उपचार के लिए जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां उसने दम तोड़ दिया। घटना के बाद आरोपी मौके से फरार हो गए। सूचना पर बागचीनी थाना पुलिस मौके पर पहुंची। उधर शाम को पुलिस अधीक्षक शैलेन्द्र सिंह चौहान भी बागचीन गांव में पहुंचे और हत्याकाण्ड की जानकारी ली। पुलिस द्वारा हत्या का मामला दर्ज कर राखी एवं उसके भाई का पीएम जौरा और जूली का पीएम मुरैना में कराया गया। चार बच्चों का पिता है त्रिलोक: अपनी पत्नी, साली एवं साले की हत्या करने वाले त्रिलोक सिंह परमार की माली हालात भी अच्छी नहीं है। बताया जाता है कि त्रिलोक सिंह मेहनत मजदूरी एवं पशु पालन कर अपनी गृहस्थी चलाता है । त्रिलोक सिंह के 8 साल 3 साल 1 साल की तीन बच्चियों हैं तथा 5 साल का एक बच्चा है। अब इस हत्याकाण्ड के बाद चार बच्चों के सिर से मां का साया हट गया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 August 2023

morena,  family dispute, man jumped

मुरैना। जिले के जौरा थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम परसोटा में मंगलवार की रात पारिवारिक विवाद में एक युवक अपनी चार साल की बेटी को लेकर कुएं में कूद गया। बुधवार सुबह ग्रामीणों में कुए में बेटी का शव उतरते देख पुलिस को सूचना दी। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और रेस्क्यू शुरू किया। पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से बेटी का शव कुएं से बाहर निकाल लिया है, लेकिन युवक का अभी तक पता नहीं चल पाया है। पुलिस उसकी तलाश में जुटी है।       जौरा थाना पुलिस के अनुसार, ग्राम परसोटा निवासी 30 वर्षीय मातादीन धाकड़ मंगलवार की रात अपने घर में विवाद होने के बाद अपनी चार साल की बेटी के साथ गांव के कुएं में कूद गया। इस बात का पता किसी को नहीं चला। बुधवार सुबह उसकी बेटी का शव कुएं में दिखा तो ग्रामीणों ने पुलिस को घटना की जानकारी दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया और बेटी के शव को बाहर निकालकर पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया है। मातादीन का अभी पता नहीं चल पाया है। पुलिस उसकी तलाश कर रही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 July 2023

morena, Sleeper coach bus, three died

मुरैना। ग्वालियर से दिल्ली जा रही स्लीपर कोच बस शुक्रवार-शनिवार की दरमियानी रात करीब दो बजे राष्ट्रीय राजमार्ग 44 पर मुरैना जिले के सरायछौला थाना क्षेत्र में बाबा देवपुरी मंदिर के पास सड़क किनारे खड़े ट्राले से जा टकराई। हादसे में तीन लोगों की मौत हो गई, जबकि 11 यात्री घायल हुए। इनमें से दो की हालत गंभीर है। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को अस्पताल पहुंचाया। वहीं, शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। हादसे के बाद मुरैना-धौलपुर हाइवे पर दो किलोमीटर लंबा जाम लग गया था। पुलिस के अनुसार, स्लीपर कोच बस ग्वालियर से शुक्रवार देर रात 12.00 बजे दिल्ली के लिए रवाना हुई थी। यह बस रात 2: 00 बजे के करीब मध्य प्रदेश और राजस्थान सीमा स्थित देवपुरी बाबा मंदिर के समीप पहुंची थी। देवपुरी मंदिर से लगभग 100 मीटर पहले राष्ट्रीय राजमार्ग 44 पर जनरेटर से भरा एक ट्राला खड़ा था। ट्राले की न तो पार्किंग डिपर जल रहे थे और न ही इंटीकेटर। रात के घने अंधेरे में बस चालक को सड़क पर खड़ा ट्राला दिखाई नहीं दिया और तेज रफ्तार बस इस हेवी लोडेड ट्राले में पीछे से जा घुसी। हादसा इतना भीषण था कि बस के अंदर बैठे यात्री टूटी खिड़कियों से बाहर छिटक गए। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस अधीक्षक शैलेंद्र सिंह चौहान पहुंचे। सभी घायलों को दुर्घटनाग्रस्त बस से निकालकर मुरैना जिला चिकित्सालय पहुंचाया गया। कलेक्टर अंकित अस्थाना ने जिला चिकित्सालय पहुंचकर व्यवस्थाओं को देखा। एसपी चौहान ने बताया कि हादसे के बाद बस चालक अमरेश त्रिपाठी (50) निवासी चौहान प्याऊ ग्वालियर की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। उसकी बॉडी निकालने के लिए बस के बाहरी हिस्से को काटना पड़ा। बस की कैबिन में बैठे धौलपुर के पदावली गांव निवासी महेश (35) पुत्र मातादीन प्रजापति की भी मौत हो गई। हैदराबाद से मजदूरी करके लौटा महेश प्रजापति कई महीने बाद अपने गांव लौट रहा था। इन दोनों के अलावा हादसे में ट्राले के हेल्पर शकीन मोहम्मद की भी मौत हो गई। हादसे में 11 यात्री घायल हुए हैं, जिन्हें जिला अस्पताल में भर्ती करवाया गया। घायलों में दो की हालत बेहद नाजुक होने पर रात में ही ग्वालियर रेफर किया गया है। सराय छोला थाना पुलिस ने ट्राला चालक के खिलाफ केस दर्ज किया है। बताया गया है कि इस बस में अधिकतर मजदूर वर्ग के यात्री थे। कुछ मजदूर धौलपुर (राजस्थान) में उतरने वाले थे, जिन्हें धौलपुर से जयपुर, अजमेर, उदयपुर तक जाना था। वहीं, कुछ मजदूर दिल्ली की ओर जा रहे थे। बस में सवार एक यात्री के अनुसार ग्वालियर से 20 किलोमीटर आगे आने के बाद बानमोर कस्बे में बस में आग भी लगी थी। उस दौरान यात्रियों ने चालक से दूसरी बस मंगाने की बात कही थी, लेकिन उसने यात्रियों की बात को अनसुना कर दिया था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 June 2023

morena, Undertrial death , Jaura sub-jail

मुरैना। जिले के जौरा में स्थित उपजेल में धोखाधड़ी के आरोप में बंद एक विचाराधीन कैदी की शनिवार की सुबह अचानक तबीयत खराब हुई, जिससे उसकी मौत हो गई। जेल प्रबंधन उसे जौरा अस्पताल भी ले गया, लेकिन डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। फिलहाल कैदी की मौत की वजह सामने नहीं आई है। जेल प्रबंधन का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत की वजह का पता चल पाएगा। जेल प्रबंधन के मृतक कैदी के परिजनों को सूचना दे दी है।     जानकारी के मुताबिक, भिंड के सुरपुरा थाना क्षेत्र के बिजौरी गांव निवासी प्रमोद (48) पुत्र ब्रजराज भदौरिया को 10 जुलाई 2022 को धारा 420, 406 के आरोप में जेल में लाया गया था। जिसका प्रकरण न्यायालय में विचाराधीन है। शनिवार की सुबह प्रमोद की अचानक तबीयत खराब हो गई, जिस पर जेलर को सूचना दी गई। इसके बाद वहां मौजूद एक फार्मासिस्ट ने उसका प्राथमिक उपचार करने का प्रयास किया और उसे एम्बुलेंस से उसे जौरा अस्पताल ले जाया गया, लेकिन अस्पताल पहुंचने पर डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। उसके शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और जौरा थाना पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।     जौरा उपजेल के जेलर बाबूलाल माहौर ने बताया कि विचाराधीन कैदी प्रमोद की सुबह 5 बजे तबीयत खराब होने पर जौरा अस्पताल ले जाया गया। जहाँ उसकी मौत हो गई है। उसकी तीन दिन पहले भी तबीयत खराब होने पर जिला अस्पताल ले गए थे। हमारे यहां भी एक फार्मासिस्ट है, उन्होंने भी प्राथमिक उपचार किया। लेकिन सुधार नहीं हुआ। कैदी की मौत का कारण अभी तक हार्ट अटैक ही लग रहा है। बाकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पता चलेगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 June 2023

morena, young man ,committed suicide

मुरैना। जिले के जौरा कस्बे में शुक्रवार को हनुमान मंदिर क्षेत्र में एक युवक ने एक युवती की गोली मारकर हत्या कर और फिर खुद को भी गोली मार ली। मौके पर मौजूद लोगों ने दोनों को अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच शुरू कर दी है। घटना के बाद जौरा का बाजार बंद हो गया है।     जौरा थाना पुलिस के अनुसार, नगर के हनुमान चौराहा पर लोकेंद्र पटवा की बेटी सोनिया माला पिरोने का काम करती है। शुक्रवार को पूर्वान्ह करीब 11.30 बजे पुराने जौरा निवासी 18 वर्षीय विजय पुत्र रघुवीर प्रजापति हनुमान चौराहा पर आया और सोनिया से कुछ कहा। इसी बीच दोनों के बीच में कुछ विवाद हुआ। इसके बाद विजय ने सोनिया को गोली मार दी। गोली लगने से सोनिया की मौके पर ही मौत हो गई। सोनिया को गोली मारने के बाद विजय मौके से भागा, लेकिन बाजार संकरा होने की वजह से वह भाग नहीं सका और करीब 80 फुट दूर जाकर उसने स्वयं को भी गोली मार ली। घटना के बाद मौके पर लोगों की भीड़ जमा हो गई। उन्होंने दोनों को अस्पताल पहुंचाया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। जानकारी मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंच गई। फिलहाल घटना के कारण का पता नहीं चल पाया है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 May 2023

morena, Morena firing ,arrested , encounter

मुरैना। मध्य प्रदेश के मुरैना जिले के ग्राम लेपा में गत दिनों छह लोगों की गोली मारकर हत्या करने वाले दो मुख्य आरोपितों को पुलिस ने मंगलवार तड़के मुठभेड़ के दौरान गिरफ्तार कर लिया। आरोपित अजीत सिंह तोमर पैर में गोली लगने से घायल हो गया है, जबकि आरोपित भूपेंद्र तोमर के सिर में मामूली चोट आई है। अजीत को इलाज के लिए मुरैना रेफर किया गया है।   मुरैना के लेपा-भिड़ौसा गांव में गत 05 मई को 10 साल पुराने भूमि विवाद में एक परिवार के छह लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। मृतकों में तीन पुरुष और तीन महिलाएं थीं। हत्या करने के बाद आरोपित फरार हो गए थे। पुलिस ने इस हत्याकांड में शुरुआत में नौ लोगों को आरोपित बनाया था। बाद में महिला (रज्जो) का नाम भी जोड़ा गया। पुलिस इससे पहले चार आरोपितों को गिरफ्तार कर चुकी है। अजीत और भूपेंद्र भी अब गिरफ्तार कर लिये गए हैं।   महुआ थाना प्रभारी ऋषिकेश शर्मा के अनुसार मंगलवार सुबह करीब 05 बजे अजीत सिंह तोमर और भूपेंद्र तोमर चंबल नदी के उसैथ घाट पर थे। इस दौरान पुलिस और आरोपितों का आमना-सामना हुआ। दोनों तरफ से फायरिंग हुई। अजीत से एक 315 बोर की राइफल, दो खाली और एक भरा हुआ कारतूस जब्त किया है।   पुलिस अधीक्षक शैलेंद्र सिंह चौहान ने बताया कि पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि मुरैना गोलीकांड के मुख्य आरोपितों की लोकेशन महुआ थाना क्षेत्र के उसैथ घाट के आसपास है। ये वहां से नदी किनारे पड़ोसी राज्य में जाने की फिराक में थे। सूचना मिलते ही पुलिस का दल उन्हें पकड़ने गया। घेराबंदी कर उन्हें सरेंडर करने के लिए कहा, लेकिन उन्होंने पुलिस पर फायर किया। जवाब में पुलिस ने भी फायर किया। हत्याकांड के आरोपित धीर सिंह, रज्जो देवी, पुष्पा और सोनू तोमर को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है। शुरुआत में सभी आरोपितों पर 10-10 हजार रुपये का इनाम घोषित था, इसे सोमवार को ही बढ़ाकर 30 हजार रुपये किया गया। दोनों मुख्य आरोपितों के गिरफ्तारी के बाद अब भी श्यामू पुत्र धीर सिंह तोमर, मोनू पुत्र धीर सिंह तोमर, रामू पुत्र धीर सिंह तोमर और गौरव पुत्र सूरजभान सिंह तोमर फरार हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 May 2023

morena, Morena shootout, perform last rites

मुरैना। जिले के लेपा गांव में शुक्रवार को हुए गोलीकांड के बाद शाम को ही मृतकों के शव गांव पहुंच गए थे, लेकिन उन्होंने अंतिम संस्कार से इंकार कर दिया। परिजनों की मांग थी कि उन्हें लाइसेंसी बंदूक दी जाए, आरोपियों के घर तोड़े जाएं, साथ ही पुलिस सुरक्षा मुहैया कराई जाए। अधिकारियों के आश्वासन के बाद शनिवार सुबह परिजन अंतिम संस्कार के लिए तैयार हुए, जिसके बाद पुलिस सुरक्षा में सभी 6 मृतकों का एक साथ अंतिम संस्कार कर दिया गया।   गोलीकांड के बाद से ही लेपा गांव में भारी पुलिस बल तैनात है। दूसरे दिन शनिवार को गांव की हर गली में रिजर्व फोर्स के जवान तैनात हैं। पुलिस शुक्रवार की शाम को ही शवों के पोस्टमॉर्टम के बाद शव गांव लेकर पहुंच गई थी, लेकिन परिजन ने शव लेने से मना कर दिया था। इसके बाद पुलिस ने शवों को एम्बुलेंस में रखकर गांव की स्कूल में ही रात गुजारी। इस दौरान पुलिस ने परिजनों को मनाने का काफी प्रयास किया, लेकिन वे अपनी मांगों पर अड़े रहे। शनिवार सुबह से अधिकारियों ने फिर अपने प्रयास शुरू किए। आखिरकार परिजन पीड़ित परिवार को दो हथियारों के लाइसेंस और 24 घंटे सुरक्षा के आश्वासन पर अंतिम संस्कार के लिए तैयार हुए। इसके बाद शवों को एम्बुलेंस में ही श्मशान घाट ले जाया गया। अंतिम संस्कार के लिए शव यात्रा भी नहीं निकाली गई। परिवार को कुछ देर के लिए शवों को देखने की इजाजत मिली। इसके उपरांत आसन नदी के किनारे सभी मृतकों का एक साथ अंतिम संस्कार कर दिया गया।   इस मामले में जिले के एसपी का कहना है कि शस्त्र लाइसेंस के लिए परिवार में जो भी पात्र होगा, उसे लाइसेंस मिल जाएंगे। साथ ही सुरक्षा के लिए चार आरक्षक और एक हेड कॉन्स्टेबल की नियुक्ति होगी, जो पाली के हिसाब से 24 घंटे परिवार के साथ होंगे। वहीं, आरोपियों के घर तोड़ने की मांग पर एसडीएम एलके पांडे का कहना है कि आरोपियों के परिवार को नोटिस दिया गया है। मामले के दो आरोपियों धीरसिंह तोमर और राजूसिंह तोमर को पुलिस ने शुक्रवार शाम को ही गिरफ्तार कर लिया था। बाकी 7 आरोपी अभी फरार हैं। पुलिस ने सभी 7 फरार आरोपियों पर 10-10 हजार रुपए का इनाम घोषित किया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 May 2023

morena, Bullets fired, land dispute

मुरैना। मध्य प्रदेश के मुरैना में शुक्रवार सुबह जमीनी विवाद खूनी संघर्ष में बदल गया। इस दौरान हुई फायरिंग में एक ही परिवार के छह लोगों की मौत हो गई। ताबड़तोड़ गोलीबारी में छह से अधिक लोग गंभीर रूप से जख्मी हो गए। मरने वालों में तीन महिलाएं भी शामिल हैं। पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने सभी मृतकों के शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। घायलों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बताया जा रहा है कि दोनों पक्षों में काफी लंबे समय से विवाद चल रहा है। इसे लेकर साल 2011 में भी एक व्यक्ति की हत्या हो चुकी है।   पुलिस के अनुसार, मुरैना के लेपा भिसोड़ा गांव में शुक्रवार सुबह एक परिवार के 6 लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गई। बताया गया है कि गांव के दो परिवारों में पिछले 10 साल से रंजिश चल रही है। इसके चलते शुक्रवार को एक परिवार ने दूसरे परिवार वालों पर फायरिंग कर दी। गोलीबारी में एक ही परिवार के तीन पुरुष और तीन महिलाएं मारी गई हैं। मृतकों के नाम लेस कुमारी पत्नी वीरेंद्र सिंह, बबली पत्नी नरेंद्र सिंह तोमर, मधु कुमारी पत्नी सुनील तोमर, गजेंद्र सिंह पुत्र बदलू सिंह, सत्यप्रकाश पुत्र गजेंद्र सिंह व संजू पुत्र गजेंद्र सिंह के नाम शामिल हैं। गोलीकांड के बाद गांव में बड़ी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है।   हत्याकांड का वीडियो आया सामने इस पूरे हत्याकांड का एक वीडियो भी सामने आया है। इसमें हमलावर लोगों को लाठियों से पीट रहे हैं। कुछ लोग बंदूक और लाठियां लेकर सड़क पर खड़े हैं। इसी बीच एक युवक आता है और एक के बाद एक पांच लोगों को गोली मार देता है। वारदात के बाद आरोपित मौके से भाग गए।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 May 2023

morena, Two remaining dead bodies, Chambal river

मुरैना। सबलगढ़ क्षेत्र में चंबल नदी में शनिवार को हुए हादसे में गुम हुए दो बालकों के शव भी सोमवार को बरामद हो गए। एसडीआरएफ एवं एनडीआरएफ की टीम ने दोनों शवों को आज खोज निकाला। तीन दिन चली खोजबीन में सभी सातों शव बरामद हो गए।   सोमवार को चंबल नदी में खोजबीन के दौरान सुबह 9 बजे बृजमोहन कुशवाह एवं दोपहर 2 बजे लवकुश कुशवाह का शव बरामद हो गए। इन दोनों शवों को पोस्ट मार्टम के बाद उनके परिजनों को सौंप दिया गया।     उल्लेखनीय है कि शिवपुरी जिले से करौली माता दर्शन के लिए जा रहे श्रृद्धालुओं का जत्था उस समय चंबल नदी में बह गया था जब ये सभी मध्यप्रदेश की सीमा से राजस्थान की सीमा की तरफ जा रहे थे। पानी में बहे तो 17 लोग थे, लेकिन दस लोगों को स्थानीय ग्रामीणों ने बचा लिया था। इस हादसे में 7 लोग बह गए थे। जिनमें से शनिवार को दो शव बरामद हो गए थे। रविवार को तीन और आज सोमवार को दो शव बरामद हुए। मृतकों में एक ही परिवार के चार सदस्य हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 March 2023

morena, Chambal river accident, Six dead bodies

मुरैना। शिवपुरी जिले के कोलारस ग्राम चिलावत थाना तेंदुआ से कुशवाह समाज के 17 लोग शनिवार को चंबल नदी पैदल पार करते समय हादसे के शिकार हुए थे। इनमें से दस लोग बच निकले थे, जबकि सात नदी में डूब गए थे। अब तक छह के शव एनडीआरएफ और एसडीआरएफ के दल ने खोज निकाले हैं। अब सिर्फ12 वर्षीय बालक लापता है। जिसकी तलाश एनडीआरएफ और एसडीआरएफ का दल कर रहा है। सोमवार की सुबह बृजमोहन कुशवाह का शव खोज लिया गया। बृजमोहन का शव घटनास्थल से दो किलोमीटर दूर गहरे पानी में मिला। तीन दिन में छह शव खोज लिए गए हैं।   कमिश्रर दीपक सिंह, एडीजी डीश्रीनिवास, कलेक्टर अंकित अस्थाना के निर्देश पर अपर कलेक्टर नरोत्तम भार्गव, एसडीओपी सबलगढ गुरूवचन सिंह घटनास्थल रातभर रहकर रेस्क्यू करा रहे हैं। रेस्क्यू कार्य में एनडीआरएफ और एसडीआरएफ के 80 अधिकारी, कर्मचारी अलग-अलग आठ बोट के सहारे रेस्क्यू कर रहे हैं। इनको स्थानीय गोताखोर व ग्रामीणों का सहयोग भी मिल रहा है।   हादसे में यह बच निकले थे राकेश पुत्र मुरारी कुशवाह, सुनील पुत्र सहदेव कुशवाह,दीपक पुत्र अमर सिंह कुशवाह, दीपक पुत्र देवकीनंदन कुशवाह, संतरा पत्नी सेवक कुशवाह, रामश्री पत्नी बचनलाल कुशवाह, संपति पत्नी राकेश कुशवाह, धनीराम पुत्र खेरा कुशवाह, चैऊ पुत्र ठकुरी कुशवाह, जानकी पुत्र हक्के कुशवाह बच निकले।   अब तक इनके मिले शव देवकीनंदन पुत्र हीरा कुशवाह, कल्लो पत्नी चैऊ कुशवाह, अलोपा पत्नी देवकी नंदन कुशवाह, रूकमणी पत्नी दीपक कुशवाह, बृजमोहन पुत्र पप्पू कुशवाह, रश्मि पत्नी सुनील कुशवाह के शव मिल चुके हैं।   यह लापता लवकुश पुत्र धानसिंह कुशवाह उम्र 12 वर्ष

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 March 2023

morena, Seven devotees crossing, Chambal river

मुरैना। प्रसिद्ध धार्मिक स्थल करोली माता के दर्शन के लिए पैदल जा रहे 17 श्रद्धालु चंबल नदी में डूब गए। स्थानीय ग्रामीण व गोताखोरों की सहायता से 10 लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया। दिन भर चली तलाश के दौरान एक महिला एवं एक पुरुष सहित दो श्रद्धालुओं के शव मिल गए हैं, जबकि पांच लोगों की तलाश सुबह से लगातार की जा रही है।   घटना की जानकारी मिलते ही प्रशासन व पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी सहित जनप्रतिनिधि मौके पर पहुंच कर पीडि़तों को ढांढ़स बंधा रहे हैं। यह सभी श्रद्धालु शिवपुरी जिले के कोलारस तहसील क्षेत्रांतर्गत छिलावद गांव के निवासी हैं। घटना का कारण पैदल नदी पार करते समय संतुलन बिगडऩा और गहरे पानी में जाना माना जा रहा है।   मुरैना जिले के टेंटरा थाना क्षेत्रांतर्गत राईडी-राधेन गांव के चंबल घाट पर शनिवार को सुबह एक बड़ी घटना हो गई। इस घाट से मध्यप्रदेश से राजस्थान के लिए लोग पैदल चंबल नदी पार करते हैं। वर्तमान में 22 मार्च से प्रारंभ होने वाले नवरात्र महोत्सव का धार्मिक लाभ लेने के लिए मुरैना, श्योपुर, शिवपुरी, ग्वालियर के हजारों श्रद्धालु पैदल नदी पार करते हैं। यह सभी श्रद्धालु राजस्थान के करोली माता मंदिर पर गुड़ी पड़वा के दिन दर्शन लाभ लेने के लिए अपने घर से मंदिर तक पैदल यात्रा करते हैं।   शनिवार को सुबह नदी पार करने के लिए 17 लोगों का समूह एक-दूसरे का हाथ पकड़कर पानी से गुजर रहा था। इसी बीच कुछ लोग गहरे पानी में चले गए। डूब रहे लोगों की चीख-पुकार सुनकर नदी किनारे बैठे श्रद्धालु एवं स्थानीय गोताखोर नदी में कूद पड़े। जिन्होंने डूब रहे 10 लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया। इनमें से गोताखोरों ने आठ श्रद्धालुओं को मडराइल राजस्थान और दो श्रद्धालुओं को मुरैना के घाट पर सुरक्षित पहुंचाया। इनमें से सात लोगों का कुछ पता नहीं चल सका। एसडीआरएफ और स्थानीय गोताखोर लापता लोगों की तलाश कर रहे हैं।   सूचना मिलने पर जिला प्रशासन के अधिकारी एवं पुलिस मौके पर पहुंची। नदी में लापता श्रद्धालुओं की तलाश के लिए एनडीआरएफ का दल मौके पर देर शाम को पहुंच गया। तलाशी अभियान के दौरान गोताखोर नदी से देवकी नंदन कुशवाह पुत्र हीरा कुशवाह उम्र 60 वर्ष निवासी छिलावद तहसील कोलारस जिला शिवपुरी एवं कल्लो पत्नी श्याम कुशवाह का शव निकाल सके जबकि रुक्मणी पत्नी दीपक कुशवाह 25 साल, लवकुश कुशवाह पुत्र थानसिंह कुशवाह 17 साल, बृजमोहन पुत्र पप्पू कुशवाह 17 साल, रश्मि पत्नी सुनील कुशवाह 22 साल, अलोप पत्नी देवकीनंदन कुशवाह 58 साल निवासी छिलावद की तलाश जारी है।   इन दस लोगों को बचाया: जो लोग चंबल नदी में डूबने से बचा लिए गए हैं उनमें राकेश पुत्र मुरारी, सुनील पुत्र राजदेव, दीपक पुत्र देवकीनंदन, संतरा पत्नी सेवक, रामश्री पत्नी बचनलाल, सम्पति पत्नी राकेश सभी कुशवाह निवासी ग्राम छिलावत थाना तेंदुआ जिला शिवपुरी हैं। वहीं तीन लोगों को राजस्थान सीमा पर बचाया गया है जिनमें धनीराम पुत्र खेरा कुशवाह, चौंऊ पुत्र ठकुरी कुशवाह, जानकी पुत्र हक्के कुशवाह शामिल हैं।   पुलिस व प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंचे: शनिवार को सुबह चंबल नदी पर हुए दर्दनाक हादसे की सूचना मिलते ही जिले के वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचे। अधिकारियों ने बचाव कार्य प्रारंभ कराया। मौके पर संभागायुक्त दीपक सिंह, जिलाधीश अंकित अस्थाना, डीआईजी चंबल सुशांत सक्सेना, पुलिस अधीक्षक आशुतोष बागरी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रायसिंह नरवरिया, सबलगढ़ एसडीएम मेघा तिवारी, एसडीओपी गुरबचन सिंह सहित अन्य अधिकारी मौके पर मौजूद थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 March 2023

Morena,  two communities , beating of youth

मुरैना। शहर के इस्लामपुरा में शुक्रवार की देर रात दो पक्षों में विवाद हो गया। तनाव के बीच जमकर फायरिंग और पथराव हुआ। करीब आधा घंटे तक एक पक्ष सड़क से फायरिंग करता रहा तो दूसरी ओर से मकानों की छतों से महिला-पुरुषों ने फायरिंग कर रहे लोगों पर पथराव शुरू कर दिया। पूरी सड़क ईंट-पत्थरों से भर गई। सड़क पर कई चले हुए कारतूस बिखरे मिले। प्राप्त जानकारी के अनुसार इस्लामपुरा, गंदी पोखर निवासी 22 वर्षीय अनीष पुत्र नवाब खांन की शुक्रवार की सुबह 10 से 12 युवकों ने बुरी तरह पिटाई लगा दी। पिटाई से घायल अनीष अस्पताल में भर्ती है। बताया गया है, कि इस्लामपुरा की मुस्लिम बस्ती के युवकों ने कुछ दिन पहले एक राठौर युवक की पिटाई की थी, जिसके बदले में अनीष पर हमला हुआ। यह विवाद रात 8 बजे के करीब इस कदर बढ़ा कि मुस्लिम बस्ती में 35 से 40 नकाबपोश युवक कट्टे व बंदूकें लेकर घुस आए और ताबड़तोड़ फायरिंग करने लगे। यह देख मुस्लिम बस्ती के युवकों ने भी जवाब में पथराव व फायर किए। घरों की छतों से महिला-पुरुषों ने फायरिंग कर रहे लोगों पर पथराव किया। फायरिंग और पथराव का यह घटनाक्रम आधा घंटे तक चला। इसके डर से लोग घरों में दुबक गए। अधिकांश खंभों के स्ट्रीट लाइट व घरों के बाहर लगे बल्ब फायरिंग व पथराव में फूटने से पूरी गली में अंधेरा पसर गया है। गली में बड़े-बड़े पत्थर, ईंट व जहां-तहां कारतूस बिखरे मिले। सूचना मिलते ही सीएसपी अतुल सिंह, कोतवाली, स्टेशन रोड व सिविल लाइन थाने की टीमों को लेकर मौके पर पहुंच गए थे। पुलिस को स्थानीय लोगों ने कुछ सीसीटीवी फुटेज भी दिए हैं, जिनमें पथराव व फायरिंग करते हुए भीड़ दिख रही है। तनाव को देखते हुए इलाके में रात से ही भारी पुलिस बल तैनात किया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 February 2023

morena, Breaking  statue ,Hanuman ji

मुरैना।उदण्ड व्यक्ति द्वारा हनुमान जी की प्रतिमा को हाथ-पैरों से क्षतिग्रस्त किये जाने पर गांव में तनाव फैल गया है। प्रतिमा टूटने की सूचना मुरैना शहर में आग की तरह फैल गई। धार्मिक व राजनैतिक संगठन के कार्यकर्ता मौके पर पहुंच गये। पुलिस ने घटनाकारित करने वाले युवक को अपनी गिरफ्त में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। गांव के अधिकांश लोग मंदिर पर एकत्रित हो गये। यहां विश्व हिन्दू परिषद ने पुलिस प्रशासन को चेतावनी दी है कि धर्म व हिन्दुत्व पर हो रहीं घटनायें नहीं रूकीं तो बड़ा आंदोलन किया जायेगा। मुरैना के थाना सिविल लाइन क्षेत्रान्तर्गत मुरैना गांव में हनुमान जी का मंदिर स्थापित है। बीती रात गांव के ही एक युवक रघुनंदन ने मंदिर परिसर में अपनी रात बिताई। गुरूवार सुबह पुजारी द्वारा मंदिर के पट खोले गये। कुछ देर बाद रघुनंदन ने पुजारी तथा बजरंग बली को अभद्र भाषा का उपयोग करते हुये प्रतिमा को क्षतिग्रस्त कर दिया। पुजारी ने इसकी सूचना ग्रामीणजनों को दी। पुजारी ने बताया कि उक्त युवक द्वारा पूर्व में भी भगवान तथा उनके प्रति अभद्रता की है। दु:खी मन से पुजारी ने सभी से आग्रह किया है कि उदण्ड व्यक्ति से मंदिर व उन्हें सुरक्षित किया जाये। घटना के कारण गांव में तनाव उत्पन्न हो गया। जानकारी मिलते ही मौके पर थाना सिविल लाइन पुलिस पहुंच गई। पुजारी व ग्रामीणों की शिकायत पर से आरोपी को हिरासत में ले लिया।   पुलिस आरोपी से घटना के विषय में पूछताछ कर रही है। मौके पर पहुंचे विश्व हिन्दू परिषद कार्यकर्ता कमल दुबे ने घटना की निंदा करते हुये उदण्ड युवक के विरुद्ध कार्यवाही की मांग की है। उन्हेांने प्रशासन व पुलिस को चेतावनी दी है कि धर्म विरुद्ध होने वाली घटनाओं पर अंकुश लगाया जाये अन्यथा बड़ा आंदोलन किया जायेगा।   थाना सिविल लाइन पुलिस ने बताया कि आरोपी की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है। उसके विरुद्ध गाली-गलौज, जान से मारने की धमकी तथा धार्मिक भावनायें आहत करने मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया गया है। बताया जाता है कि कुछ वर्ष पूर्व आरोपी ने अपने पिता की हत्या कर दी थी। अपनी जमीन जायदाद को भी बेच दिया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 February 2023

gwalior, Lokayukta raids ,Deputy Jailor , Morena Jail

ग्वालियर। आय से अधिक संपत्ति की शिकायत मिलने पर ग्वालियर लोकायुक्त पुलिस ने शनिवार सुबह मुरैना जेल में पदस्थ डिप्टी जेलर हरिओम पाराशर के ग्वालियर स्थित घर और मुरैना स्थित सरकारी आवास पर छापामार कार्रवाई की। लोकायुक्त की टीम पहले उनके ग्वालियर में गोले के मंदिर स्थित 21 कृष्णा अपार्टमेंट पहुंची तथा छानबीन शुरू की और उसके बाद दूसरी टीम ने मुरैना स्थित उनके शासकीय आवास पर दबिश दी।   जानकारी के मुताबिक, लोकायुक्त पुलिस को शिकायत मिली थी कि डिप्टी जेलर पाराशर ने अनैतिक तरीकों से आय से अधिक संपत्ति अर्जित की है। शिकायत की जांच करने पर लोकायुक्त पुलिस को पता चला कि हरिओम पाराशर के पास वास्तव में आय से अधिक सम्पत्ति की पूरी संभावना है। इसके बाद योजनाबद्ध तरीके से शनिवार को छापामार की कार्रवाई की गई। लोकायुक्त पुलिस की दो अलग-अलग टीमों ने सुबह करीब 6:00 बजे ग्वालियर और मुरैना स्थित आवास पर दस्तक दी। ग्वालियर में फिलहाल कार्यवाही जारी है।   वहीं, मुरैना में सरकारी आवास पर ताला लगा हुआ था। इसके चलते ग्वालियर से एक टीम जेलर को अपने साथ लेकर करीब 9:30 बजे मुरैना के लिए रवाना हुई। इसके बाद मुरैना में सरकारी आवास का ताला खोलकर यहां भी सर्चिंग की जा रही है। फिलहाल यह पता नहीं चल पाया है कि डिप्टी जेलर के ठिकानों से टीम को कितनी संपत्ति बरामद हुई है। कार्यवाही में शामिल लोकायुक्त पुलिस के अधिकारियों ने अपने मोबाइल भी बंद कर लिए हैं।     ग्वालियर के गोला का मंदिर स्थित सुरुचि होटल के पास कृष्णा अपार्टमेंट में स्थित फ्लैट में रहने वाले हरिओम पाराशर मुरैना जेल में डिप्टी जेलर के पद पर पदस्थ है। मुरैना में ही उन्हें सरकारी आवास मिला है, लेकिन वह वहां नहीं रुक कर ग्वालियर में अपने निजी आवास में रहते हैं। वह रोज अपडाउन करते हैं। इसके बाद भी मुरैना में आवास ले रखा है। लोकायुक्त पुलिस को शिकायत मिली थी कि उन्होंने आय से अधिक संपत्ति इकट्ठा कर रखी है। लोकायुक्त पुलिस को मिली शिकायत की जांच की गई, इसके बाद एक साथ दो टीमों ने कार्रवाई शुरू की। डिप्टी जेलर हरिओम पाराशर करीब एक साल पहले मुरैना में पदस्थ हुए थे। उनके ठिकानों पर छापामार कार्रवाई से जेल डिपार्टमेंट के अफसरों में हड़कंप मचा हुआ है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 January 2023

स्वास्थ्य केंद्र में महिला के सिर में कंडोम के खाली रैपर चिपकाए

  खून  रोकने के लिए कंडोम के खाली रैपर को चिपकाया  मध्यप्रदेश में स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को लेकर हमेशा सवाल उठते रहे हैं। मुरैना के पोरसा में स्वास्थ्य कर्मियाें की लापरवाही चरम पर है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में घायल होकर आई एक महिला के सिर में रुई की जगह कंडोम के खाली रैपर को चिपका दिया गया।  फिर पट्टी बाँध दी गई।  और जिला अस्पताल मुरैना के लिए रैफर कर दिया। जब मुरैना में स्वास्थ्य कर्मियों ने महिला के उपचार के दौरान पट्टी को खोला तो कंडोम के रैपर को देखकर आश्चर्यचकित रह गए। जानकारी के अनुसार  पोरसा के धर्मगढ़ गांव की 70 वर्षीय रेशमबाई पत्नी लालाराम अपने घर में सोई हुई थी। इसी दौरान छत से एक ईंट गिरी, जो रेशमाबाई के सिर पर लगी। ईंट गिरने से सिर फट गया। तत्काल पोरसा अस्पताल लाया गया। जहां सिर से बह रहे खून को रोकने के लिए पोरसा अस्पताल के ड्रेसर व एक डाक्टर ने निरोध के खाली पैकेट को चिपका दिया।  इसके बाद पट्टी बांधकर बुजुर्ग महिला को मुरैना जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया । इस मसले पर जब जानकारी ली गई तो पता चला कि मुरैना जिले के सामुदायिक अस्पतालों में रुई व बैंडेज की कमी नहीं है। बावजूद इसके पोरसा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर कंडोम के रैपर को चिपका कर महिला को रैफर कर दिया गया। अस्पतालों से आ रही ऐसी घटनाएं बड़े कारण की वजह न बन जाएं। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 August 2022

जनपद पंचायत में कई जिलों से कांग्रेस की शिकायत

  बीजेपी पर कोंग्रेस ने सदस्यों उठाने का आरोप  मध्यप्रदेश में जिला पंचायत अध्यक्षों के चुनाव में कई नए मोड़ आ रहे हैं।  कहीं बीजेपी तो कहीं कांग्रेस का कब्ज़ा हो रहा है।सीहोर जिला पंचायत अध्यक्ष को लेकर भोपाल में बवाल हुआ। सीहोर के जिला पंचायत सदस्यों को भोपाल की खजूरी पुलिस उठाकर थाने ले आई। जानकारी लगने पर बड़ी संख्या में कांग्रेस नेता थाने पहुंच गए। कांग्रेसियों का आरोप है कि उनके ऊपर भाजपा में शामिल होने के लिए दबाव बनाया जा रहा है। वहीं इस बीच  मुरैना में कांग्रेस ने पुलिस पर कांग्रेस समर्थित जिला पंचायत सदस्यों को उठाने का आरोप लगाया है। जिसको लेकर कांग्रेसियों ने एसपी ऑफिस का घेराव करते हुए नारेबाजी की। यही हाल जबलपुर और सीहोर का भी है। आपको बता दें गुरुवार रात कांग्रेस के पूर्व मंत्री रामनिवास रावत, विधायक राकेश मावई, अजब सिंह कुशवाह, रविन्द्र सिंह तोमर, सतीश सिकरवार, वरिष्ठ कांग्रेसी नेता अशोक सिंह समेत करीब 100 कांग्रेसी एसपी ऑफिस पहुंच गए। वे यहां धरने पर बैठ गए। आरोप है कि जौरा, बागचीनी व कैलारस पुलिस ने उनके दो जिला पंचायत सदस्यों को किडनैप कर लिया है। यह काम केन्द्रीय मंत्री के इशारे पर किया गया है, जिससे वे जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में मतदान न कर सकें। इसके बाद सभी नेताओं को गिरफ्तार कर पुलिस वैन से सिविल लाइन लाकर नजरबंद किया गया।  श्योपुर  की बात करें तो 11 में से 6 सदस्य कांग्रेस और 5 भाजपा के हैं। कांग्रेस के 6 सदस्यों में से एक वार्ड 7 से चयनित सदस्य संदीप शाक्य को  कैलारस पुलिस ने उसके मामा के घर से उठा लिया। इसके बाद गुरुवार को दूसरे सदस्य वार्ड 4 के गिरधारी लाल बैरवा व वार्ड-1 के सुरेश कुमार लालावत को भी पुलिस ने उठा लिया। जबलपुर में कांग्रेस के विधायकों और पार्टी पदाधिकारियों ने भाजपा नेताओं पर जिला पंचायत सदस्य हीराबाई साहू के पति रामेश्वर साहू के अपहरण का आरोप लगाया है। कांग्रेस विधायकों ने ओमती थाने पहुंचकर विरोध जताया। कांग्रेस का कहना था कि चुनाव जीतने के लिए भाजपा नेता, पुलिस की मिलीभगत से राजनीति कर रहे हैं। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 July 2022

morena, More than 40 children, sick due ,cholera-like

मुरैना। जिले की सबलगढ़ तहसील के तीन गांवों में बीती रात से अचानक कई बच्चे बीमार हो गए। उल्टी- दस्त के बाद पीड़ित बच्चों को लेकर उनके परिजन गुरुवार को ग्रामीण अस्पताल पहुंचे। गुरुवार सुबह 18 बच्चों को अस्पताल लाया गया है। वहीं, इनमें से तीन बच्चों को जिला चिकित्सालय के लिए रेफर कर दिया गया है। ग्रामीणों के अनुसार लगभग 40 से 50 बच्चे बीमार हुए हैं। जानकारी के अनुसार सबलगढ़ तहसील के हुआपुरा, दंते पुरा तथा चौक पुरा में अज्ञात कारणों के चलते 40 से 50 बच्चे गंभीर रूप से बीमार हो गए हैं। सभी बच्चे उल्टी और दस्त से पीड़ित हैं, जिसमें से 18 बच्चे अभी तक सिविल अस्पताल लाए गए हैं, जिनका उपचार किया जा रहा है। तीन बच्चों की ज्यादा हालात खराब होने पर उन्हें को जिला चिकित्सालय रेफर कर दिया गया। वहीं अन्य बच्चों को भी ग्रामीणों ने अस्पताल में लाया जा रहा है। एक साथ इतनी तादाद में बच्चों के बीमार होने पर स्वास्थ्य विभाग की टीम गांवों के लिए रवाना हो गई है, जहां बच्चों के बीमार होने के कारण का पता लगाया जाएगा। इस संबंध में डॉ. शरद शर्मा ने बताया गया है कि बच्चों का उपचार चल रहा है और स्वास्थ्य विभाग की टीम गांवों के लिए रवाना हो चुकी है। खाने और पानी के सेम्पल लिए जा रहे हैं। बीमार बच्चों को गांव में भी दवाई दी जा रही है। बीमार होने की वजह गर्मी भी हो सकती है और फ़ूड पॉयजनिग भी। जांच के बाद स्पष्ट हो जाएगा। हालांकि तीन गांवों में हैजे जैसी बीमारी के फैलने की सूचना के बाद प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग भी सक्रिय हो गया है। विभाग इन गांवों में अपनी डॉक्टरों की टीम भेजने की तैयारी कर रहा है, ताकि बीमारी को रोका जा सके।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 May 2022

morena,Three girls , bathe in Chambal river ,drowned

मुरैना। चंबल नदी में शुक्रवार देरशाम नहाने गईं तीन नाबालिग लड़कियां डूब गईं। इसकी सूचना मिलते ही हड़कंप मच गया। पुलिस और एनडीआरएफ की टीम ने रेस्क्यू कर देररात दो बच्चियों के शव बरामद कर लिए हैं। एक की तलाश जारी है। सबलगढ़ के रहू गांव में केवट समाज की तीन बच्चियां शुक्रवार शाम चंबल नदी के रहूं घाट पर रोजाना की तरह नहाने गईं थी। तीनों नदी में नहाने उतरीं। नहाने के दौरान एक बच्ची गहरे पानी में जाकर डूबने लगी तो दूसरी बच्ची ने उसे बचाने की कोशिश की, इसी कोशिश में तीसरी भी चंबल नदी में समा गई। गांव के कुछ लोगों ने देखा तो बच्चियों की तलाश शुरू की गई। बच्चियों के डूबने की खबर आग की तरह फैल गई। आसपास के गावों के लोग भी पहुंच गए। सूचना पाकर जिला प्रशासन की तरफ से एसडीएम एलके पाण्डेय और थाना प्रभारी सबलगढ़ केके सिंह पहुंचे।उन्होंने तुरंत रेस्क्यू करवाया। बच्चियों की उम्र 7 से 10 साल के बीच है। रेस्क्यू ऑपरेशन देररात तक चला। देररात दो बच्चियों के शव बरामद कर लिए गए। एक बच्ची का शव अभी तक नहीं मिला है, उसे खोजने के लिए शनिवार सुबह फिर से रेस्क्यू शुरू किया गया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 April 2022

morena, Armed miscreants robbed, goods train ,full of sugar

मुरैना। बिना इंजन के खड़ी मालगाड़ी के डिब्बे तोड़कर सैकड़ों बोरी शक्कर लूटने वाले बदमाशें से पुलिस की जमकर मुठभेड हुई। लगभग एक घण्टे तक रूक रूक कर दोनो ओर से गोलीबारी होती रही। इसमें एक बदमाश घायल हो गया। रेल पुलिस बल तथा मुरैना जिला पुलिस बल द्वारा मौके पर पहुंचकर खेतों में पड़ी शक्कर की बोरियों को एकत्रित किया गया, लेकिन इनकी गिनती घटना के पॉच घण्टे बाद भी नहीं की जा सकी। वहीं बदमाशों की सुरागसी का प्रयास पुलिस द्वारा किया जा रहा है। पुलिस के अनुसार मुरैना जिले के सिकरौदा रेलवे स्टेशन पर बीती शाम छः बजे के लगभग दिल्ली की ओर जाने वाली गोआ एक्सप्रेस का इंजन खराब हो गया था। इस सवारी गाड़ी को तत्काल आगे रवाना करने के लिये इंजन की आवश्यकता थी। झॉसी मण्डल के रेल अधिकारियों द्वारा इंजन की व्यवस्था ट्रेक पर जा रही मालगाड़ी से की। दिल्ली से दक्षिण भारत की ओर जा रही मालगाड़ी को सिकरौदा रेलवे स्टेशन पर बीती शाम 6:45 मिनट पर रोका गया। इस मालगाड़ी में डीसीएम कम्पनी के शक्कर भरी हुई थी। इस मालगाड़ी को सिकरौदा रेलवे स्टेशन के ट्रैक पर लूपलाईन में खड़ा कर दिया गया। इसका इंजन गोआ एक्सप्रेस में लगाकर सवारी गाड़ी को दिल्ली की ओर रवाना कर दिया गया। मालगाड़ी की सुरक्षा में रेल पुलिस बल लगाया गया था। मालगाड़ी के सबसे पिछले हिस्से के डिब्बे को बदमाशों ने अपना निशाना बनाया। पिछले गार्ड बोगी के बाद डिब्बे का दरवाजा अज्ञात बदमाशों ने तोड दिया। बुधवार सुबह चार बजे के लगभग बदमाशों ने मालगाड़ी की बोगी का गेट तोड़कर शक्कर लूटना शुरू कर दिया। मालगाड़ी से लगभग 100 मीटर की दूरी पर खेतों में खड़ी गेहू की फसल के बीच शक्कर के बोरो को रख दिया। कुछ ही देर में लूटेरो ने सैकड़ो बोरी शक्कर डिब्बे से निकालकर खेतों में रख दी। इसी बीच मालगाड़ी की सुरक्षा में लगे रेल पुलिस बल को बदमाशों की आहट हुई। पुलिस कर्मीयों ने बदमाशों को ललकारा। इसका जवाव बदमाशों ने गोली चलाकर दिया। इसकी जानकारी जैसे थाना सिविल लाईन पुलिस को लगी तब जिला पुलिस बल भी मौके पर पहुंचा और रेल पुलिस बल के साथ बदमाशों से मुकावला किया। लगभग एक घण्टे तक दोनो ओर से रूक रूक कर गोली बारी होती रही। इस बीच काफी पुलिस बल मौके पर पहुंचा गया। सुबह होती देख बदमाश भाग खडे हुये। अधिक पुलिस बल व गोली बारी के कारण बदमाश लूटे हुये माल को ले जाने में सफल नहीं हो सके। गोलीबारी बंद होने तथा सुबह होने पर रेल पुलिस बल व जिला पुलिस बल ने खेतों में खड़ी फसल के बीच तलाशी अभियान चलाया जिसमें एक युवक घायल अवस्था में मिला जिसे मुरैना जिला चिकित्सालय में उपचार के लिए दाखिल कराया गया है। रेल पुलिस तथा मुरैना जिला पुलिस बल के अधिकारियों ने मौके का मुआयना कर बदमाशों की तलाश करने के निर्देश दिये। रेल पुलिस घटना की जॉच के बाद बदमाशों के विरूद्ध कार्यवाही करेगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 April 2022

morena,  Mirchi Baba

मुरैना। मध्यप्रदेश सरकार के विरुद्ध गौमाता को लेकर लगातार आक्रमक हो रहे मिर्ची बाबा का वाकयुद्ध एमपी एग्रो के चेयरमैन ऐंदल सिंह कंषाना से लगातार गहराता जा रहा है। मप्र एमपी एग्रो के चेयरमैन की चेतावनी पर मुरैना देवरी गौशाला पर आए मिर्ची बाबा ने भाजपा पर भी प्रश्नचिन्ह खड़ा किया। उन्होंने केन्द्र व राज्य की सरकारों को हिन्दुत्ववादी बताते हुये गाय को बेहाल बताया। उन्होंने गौमाता को राष्ट्रमाता घोषित करने के लिये संसद के बाहर धरना प्रदर्शन की चेतावनी भी दी।   रविवार को अल्प प्रवास पर मुरैना आये बेराग्यनंद उर्फ मिर्ची बाबा ने कहा कि हिन्दुत्ववादी सरकारों के बाद भी प्रति गाय माता का 50 रुपये प्रतिदिन के मान से भोजन की राशि नहीं मिल रही है। वहीं गौमाता को राष्ट्र माता भी घोषित नहीं किया जा रहा है। उन्होंने इसके लिये संसद के सामने धरना देने की चेतावनी देते हुये कहा कि संत को फर्जी कहना क्या भाजपा की संस्कृति है? यह संतों का अपमान है। भाजपा सरकारों पर आरोप लगाते हुये उन्होंने कहा कि गाय को भोजन पानी नहीं मिल पा रहा, लेकिन हिन्दुत्व का प्रोपेगंड़ा किया जा रहा है।   मिर्ची बाबा देवरी गौशाला के भ्रमण पश्चात जौरा कार्यक्रम में भाग लेने के लिये रवाना हो गये। उन्होंने यहां गाय माता को गुड़ भी खिलाया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 March 2022

 Girraj Dandotia

भाजपा प्रत्याशी  गिर्राज दंडोतिया का विवादित बयान कमलनाथ और दिग्विजय को लेकर आपत्तिजनक बयान आइटम वाले बयान पर  सिर काटने  तक की बात की   मध्य प्रदेश उपचुनाव में नेताओं की बदजुबानी का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा  |  कमलनाथ के शब्दों की मर्यादा खोने के बाद  अब   दिमनी विधानसभा सीट से बीजेपी उम्मीदवार और शिवराज सरकार के  मंत्री गिर्राज दंडोतिया ने कमलनाथ  और दिग्विजय सिंह को लेकर आपत्तिजनक बयान दिया है  | उन्होंने कहा जिस तरीके से कमलनाथ ने डबरा में इमरती देवी के लिए शब्दों का इस्तेमाल किया  | उस तरीके के शब्दों का इस्तेमाल यदि दिमनी विधानसभा सीट पर करते तो उनका सिर काट लिया जाता  | वहीँ दिग्विजय सिंह और उनके परिवार को लेकर भी दंडोतिया ने  घटिया  बयानबाजी की  |  सिंधिया समर्थक और  मुरैना के दिमनी विधानसभा सीट से बीजेपी उम्मीदवार  गिर्राज दंडोतिया ने  चुनावी सभा के दौरान कमलनाथ और दिग्विजय सिंह को लेकर आपत्तिजनक बयान दे दिया  |  जिसको लेकर कांग्रेस अब भड़क उठी है |  दंडोतिया ने दिमनी में कहा कि "कमलनाथ ने अगर मेरी विधानसभा में "आइटम" वाला बयान दिया होता तो उनका सिर काट देते |   इसके बाद पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस सांसद दिग्विजय सिंह पर भी अभद्र टिप्पणियां कीं गई   .| जब दंडोतिया ने यह बात कही तो मंच पर ज्योतिरादित्य सिंधिया भी मौजूद थे  |  दंडोतिया के इस आपत्तिजनक बयान को लेकर अब सियासी बवाल  खड़ा हो गया है |  कांग्रेस  प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने कहा है कि कांग्रेस भले ही अहिंसा के पुजारी हों |  लेकिन ऐसे लोगों का इलाज भी उन्हें आता है |  उन्होंने कहा है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और बीजेपी को उन्हें पार्टी से  निकाल देना चाहिए  | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 October 2020

 10 new positive

संपर्क में आये डॉक्टर रिलेटिव हुए कोरेन्टाइन   मध्यप्रदेश में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है  |  मुरैना जिले में 10 नए पॉजिटिव मरीज सामने आए है  |  एक दंपत्ति को भी कोरोना वायरस होने की पुष्टि हुई थी |  मुरैना में कुल पॉजिटिव मरीजों की संख्या 12 हो गई है |  मुरैना स्वास्थ्य विभाग में कुल 30 लोगों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए  थे  | जिनमें से 10 लोगों को कोरेना पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई है  |  बताया जा रहा है कि जो युवक 17 मार्च को दुबई से भोपाल लौटा था  |  उसी के संपर्क में आने से पहले उसकी पत्नी को कोरोना  हुआ  | उसके बाद उसके संपर्क में जो 26 लोग आए थे उनमें से 10 लोगों को कोरोना वायरस होने की पुष्टि हुई है |  वर्तमान में जो 10 कोरोनावायरस मरीज मिले हैं इनमें पुरुषों के अलावा महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं |  इन सभी को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है | बताया यह भी जा रहा है कि जिला अस्पताल के जो डॉक्टर इन मरीजों का इलाज कर रहे थे  | उन सभी के सैंपल भी जांच के लिए भेज दिए गए हैं | ऐसे में मुरैना जिला प्रशासन के सामने एक बड़ी चुनौती यह है कि पॉजिटिव पाए गए यह 10 मरीज संक्रमित होने के बाद किन-किन लोगों से मिले  | उन सब तक भी शासन को पहुंचना होगा | गौरतलब है कि मुरैना जिले में लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं कर रहे थे  | यही कारण है कि 3 दिन पहले ही मुरैना कलेक्टर ने राशन की दुकानों सब्जी और दूध के पार्लर्स को भी पूरी तरीके से बंद करने के निर्देश दे दिए थे  | और कल जब 2 मरीज सामने आए थे  |  उसके बाद मुरैना शहर में कर्फ्यू लगा दिया गया था |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 April 2020

 KAMALNATH

कांग्रेस सरकार विजय हासिल करेगी     मुख्यमंत्री कमलनाथ की बदमिजाजी से नाराज कांग्रेस विधायकों के कारण कांग्रेस सरकार पर खतरे के बादल मनरा रहे हैं | ऐसे में कोंग्रेसी मंदिर मंदिर जा कर सरकार बची रहे  इसके लिए प्रार्थना कर रहे हैं |  मुरैना जिले के कैलारस नगर में  अलोपी  की फड़ीया पर कॉग्रेस कार्यकर्ताओ ने   470 सीढ़ियों को चढ़कर कॉग्रेस सरकार को बचाने  के लिए  ओम नमः शिवाय का जाप  किया  |  कमल नाथ सरकार को सुरक्षित  रखने के लिए  जगह-जगह मन्नतें मांगी जा रही हैं |  कांग्रेस नेता राकेश यादव ने बताया कि  सरकार ने किसानों की कर्ज माफी किये कई योजनाएं दी  |  हमारी सरकार बरक़रार बनी रहेगी |  हमें ईश्वर पर पूरा भरोसा है  | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 March 2020

 सपना चौधरी के शो में पथराव

  मुरैना में बिग बॉस फेम हरियाणा की डांसर सपना चौधरी के शो में जमकर हंगामा हुआ। एमएस रोड स्थित दुबे मैरिज गार्डन में सपना चौधरी को देखने के लिए आए लोगों को जब गार्डन में प्रवेश नहीं मिला तो उन्होंने पथराव कर दिया। पथराव में कुछ लोग चोटिल भी हुए। व्यवस्था में लगे चार थानों के एक सैकड़ा से अधिक पुलिस कर्मियों ने भीड़ पर डंडे चलाए। इस दौरान एमएस रोड़ पर दोपहर में दो घंटे तक ट्रैफिक बुरी तरह प्रभावित हुआ। कार्यक्रम मंगलवार को दोपहर 2 से 4 बजे के बीच तय था। सपना की लोकप्रियता के चलते समय से पहले ही गार्डन पर खासी भीड़ एकत्रित हो गई। जिससे अव्यवस्था होने लगी। तीन बजे के करीब एक सपना चौधरी मंच पर आईं तो भीड़ अनियंत्रित हो गई और गार्डन में जाने का प्रयास करने लगी। जब पुलिस ने रोकने का प्रयास किया तो भीड़ ने पथराव कर दिया। भीड़ को भगाने के लिए पुलिस को हल्का बल प्रयोग कर डंडों खदेड़ना पड़ा। कार्यक्रम में स्थिति न बिगड़े इसलिए पुलिस ने करीब सवा 4 बजे सपना को रवाना करवा दिया। आयोजकों ने बताया कि शो में प्रवेश के लिए 500 और हजार स्र्पए के टिकट रखे गए थे। जिनके पास टिकट था वे तो आसानी से कार्यक्रम में पहुंच गए। गार्डन के गेट पर ऐसे लोगों ने हंगामा किया जो मुफ्त में प्रवेश पाना चाह रहे थे। दुबे गार्डन के सामने दो बजे से लेकर साढ़े चार बजे तक भीड़ की वजह से जाम लगा रहा। हालांकि पुलिस ने एक लेन को बंद करवा दिया था, लेकिन दूसरी लेन भी लोगों की भीड़ की वजह से बंद सी रही। ऐसे में वाहनों का जाम लगा रहा।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 January 2018

मंत्री रूस्तम सिंह

लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री रूस्तम सिंह ने लोगों से अपील की है कि यदि निजी अस्पताल की जाँच में डेंगू पाया जाता है तो उसकी पुष्टि शासकीय चिकित्सालय में अलाइजा टेस्ट से अवश्य करवायें। श्री सिंह ने कहा ठंड लगकर तेज बुखार, सिरदर्द, शरीर पर चकत्ते और उल्टी आये तो चिकित्सक की सलाह अवश्य लें। सलाह अनुसार शासकीय अस्पताल में रक्त की जाँच करवायें। पानी जमा न रहने दें श्री सिंह ने कहा कि डेंगू का मच्छर साफ पानी में पनपता है और दिन में काटता है। अत: अपने घर में कूलर, टायर, पुराने मटके आदि में लम्बे समय तक पानी जमा न रहने दें। दिन में पूरी आस्तीन के कपड़े पहने। श्री सिंह ने कहा कि कूलर में एक चम्मच सरसों का तेल डाल दें इससे पानी के ऊपर तेल की परत जमने से लार्वा नहीं उत्पन्न होता है। अधिक तरल पदार्थ पियें बुखार आने पर अधिक से अधिक तरल पदार्थ जैसे पानी, दूध, मट्ठा, जूस आदि का अधिक से अधिक सेवन करे। बुखार के दौरान पूरे शरीर पर पानी की पट्टियाँ रखें। शरीर पर चकत्ते होने पर मरीज को तत्काल अस्पताल में भर्ती करवाकर इलाज करवायें। खून में प्लेटलेट्स की संख्या कम होने पर भी न घबरायें। पैरासिटामोल को छोड़कर कोई भी अन्य दर्द निवारक दवा का सेवन न करें। स्वास्थ्य विभाग द्वारा आज भी प्रदेश में स्वाईन फ्लू, डेंगू, मलेरिया और चिकनगुनिया की समीक्षा की गई। स्वास्थ्य, आयुष, गैस राहत त्रासदी और नगरीय प्रशासन विभाग की समन्वित टीमें लार्वा विनिष्टीकरण करने के साथ ही इन बीमारियों पर नजर रख रही हैं। 3 अगस्त को डेंगू के 9, चिकनगुनिया और स्वाईन फ्लू के एक-एक संदिग्ध मरीज का टेस्ट किया गया जिनकी रिपोर्ट निगेटिव आई। प्रदेश में जनवरी से अब तक डेंगू के कुल 22 मामले सामने आये हैं जिनमें भोपाल जिले के 10, जबलपुर के 9, पन्ना, डिण्डोरी और दमोह का एक-एक मामला शामिल है। डेंगू से वर्ष 2017 में कोई मृत्यु नहीं हुई है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 August 2017

मुरैना दुर्घटना शिवराज

  मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि पिछले दिनों मुरैना जिले के बरौआ बायपास के पास हुई ट्रैक्टर-ट्राली और ट्रक की टक्कर में मृतकों के परिजनों को हरसंभव सहायता की जायेगी। इस दुर्घटना में अलाहपुर और विषमपुरा के सात लोगों की मृत्यु हो गयी थी और बारह लोग घायल हो गये थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान से आज यहाँ मुख्यमंत्री निवास पर इस दुर्घटना से प्रभावित लोगों के परिजनों ने मुलाकात की। मुख्यमंत्री ने कहा कि जिस परिवार में केवल दो बेटियाँ बची हैं, उनकी नि:शुल्क शिक्षा और देखरेख की व्यवस्था की जायेगी। मृतकों के परिजनों के लिये रोजगार की व्यवस्था कराई जायेगी। उन्होंने राहत राशि तत्काल देने के निर्देश दिये। इस अवसर पर लोक स्वास्थ्य मंत्री श्री रूस्तम सिंह और विधायकगण उपस्थित थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 July 2017

रेत माफिया फायरिंग व पथराव

मुरैना में चंबल के बरबासिन घाट पर रेत के अवैध उत्खनन को रोकने गए टास्क फोर्स व रेत चोरों के बीच फायरिंग व पथराव हुआ। हालांकि इसमें कोई घायल नहीं हुआ। टास्क फोर्स ने कार्रवाई के दौरान दो ट्रैक्टर ट्रॉली व एक जेसीबी को जब्त कर लिया, लेकिन जेसीबी और एक ट्रैक्टर को रेत माफिया ऐसी जगह फंसा कर गए थे कि पुलिस उन्हें निकाल नहीं पाई और सिर्फ एक ट्रैक्टर को जब्त कर वापस आ गई। चंबल से रेत के अवैध उत्खनन को रोकने के लिए बनाया गया टास्क फोर्स रविवार को नईदुनिया में प्रकाशित खबर के बाद सुबह सात बजे रेत के अवैध उत्खनन को रोकने के लिए बरबासिन के घाट पर पहुंचा। हालांकि रेत माफिया को पहले ही कार्रवाई की सूचना मिल गई थी। इसलिए अधिकतर रेत चोर ट्रैक्टर व जेसीबी लेकर गायब हो चुके थे। लेकिन कार्रवाई के दौरान बरबासिन व खांडोली के बीच में टास्क फोर्स ने दो ट्रैक्टर व एक जेसीबी को पकड़ लिया। जब पुलिस जेसीबी को जब्त करने की कार्रवाई कर रही थी तो रेत माफिया ने एक फायर किया। जवाब में पुलिस ने दो फायर कर दिए। इसके बाद रेत चोर जेसीबी व ट्रैक्टर छोड़कर भाग निकले। लेकिन माफिया ने एक ट्रैक्टर और जेसीबी को घाट पर ऐसे फंसाकर खड़ा दिया कि घंटों की मशक्कत के बाद भी पुलिस को मौके पर छोड़कर वापस आना पड़ा।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 March 2017

ips गाजीराम मीणा

  अगर मध्य प्रदेश में कोई कैदी जेल ब्रेक करते हुए पाया गया तो ड्यूटी पर तैनात सिपाही से तत्काल गोली मारे, यह आदेश एडीजी जेल गाजीराम मीणा ने मुरैना जेल के निरीक्षण के दौरान कही। सोमवार को मुरैना जेल ब्रेक के बाद पूरा महकमा हरकत में आ गया है, जेल का निरीक्षण करने मंगलवार सुबह एडीजी यहां पहुंचे, उन्होंने पूरी जेल का मुआयना किया और उस दौरान ड्यूटी पर तैनात जेलकर्मियों से घटना के बारे में भी जाना। मीडिया से बात करते हुए एडीजी ने कहा कि भोपाल जेल ब्रेक के सेंट्रल जेलों की सुरक्षा तो बढ़ाई गई थी, लेकिन जिला जेलों में ज्यादा सुरक्षा नहीं की गई थी। इस पूरी घटना की जांच के लिए एसआईटी का गठन कर दिया गया है। इसमें ग्वालियर सेन्ट्रल जेल के अधीक्षक नरेंद्र प्रताप सिंह, उज्जैन जेल के अधीक्षक सुनील शर्मा और मुरैना एसडीएम प्रदीप तोमर इस टीम में शामिल रहेंगे। एडीजी जेल ब्रेक के कारणों का पता किया जाएगा साथ इंटेलिजेंस के जरिए सूचनाएं एकत्रित की जाएंगी। वहीं इस घटनाक्रम के बाद जेल की छत के चारों ओर ऊंची बाउंड्रीवाल बनाने के निर्देश भी दे दिए हैं। साथ ही कुछ दिनों तक पुलिस का अतिरिक्त फोर्स भी जेल की सुरक्षा में तैनात रहेगा। ऐसी घटनाओं से निपटने के लिए जेलकर्मियों की ट्रेनिंग कराई जाएगी। साथ ही उनके पास वर्तमान में मौजूद 410 मस्कट रायफल को एसएलआर और 303 से बदला जाएगा। वहीं स्थानीय पुलिस ने जेल से भागे आरोपियों पर दस-दस हजार का इनाम घोषित कर दिया है और पुलिस पार्टियां संभावित ठिकानों दबिश दे रही हैं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 February 2017

 मुरैना जिले के कैलारस एवं सबलगढ़ तहसील

केन्द्रीय मंत्री तोमर के प्रयास रंग लाए  मध्यप्रदेश मंत्री परिषद ने  भारत सरकार के रक्षा मंत्रालय द्वारा मुरैना जिले के कैलारस एवं सबलगढ़ तहसील के अंतर्गत राष्ट्रीय महत्व की रक्षा परियोजना स्थापित करने के लिए एक लाख रुपये भू-भाटक पर 334.584 हैक्टेयर राजस्व भूमि आवंटित करने की मंजूरी प्रदान कर दी। केन्द्रीय पंचायतीराज, ग्रामीण विकास, पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री  नरेन्द्र सिंह तोमर के विशेष प्रयासों से यह परियोजना मंजूर हुई है। इस परियोजना पर लगभग 1500 करोड़ रूपए का व्यय प्रस्तावित है।  मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान की सहमति से केन्द्रीय मंत्री तोमर ने इस परियोजना की स्वीकृति के लिये महती प्रयास किए हैं। भारत सरकार द्वारा प्रस्तावित परियोजना को चंबल अंचल में स्थापित कराने के लिये श्री तोमर ने केन्द्रीय रक्षा मंत्री से सतत संपर्क बनाए रखा। उन्होंने मुख्यमंत्री से चर्चा कर इस परियोजना के लिये जमीन मुहैया कराने के लिये शिद्दत के साथ प्रयास किए। भोपाल यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री श्री चौहान और केन्द्रीय मंत्री श्री तोमर ने इस परियोजना के बारे में प्रधानमंत्री को भी जानकारी दी थी। प्रधानमंत्री ने चंबल क्षेत्र में इस परियोजना की स्थापना की सराहना की है।  मुरैना जिले के अंतर्गत भौगोलिक सुरक्षा, रणनीतिक एवं तकनीकी दृष्टि से माकूल कुल 969.735 हैक्टेयर जमीन रक्षा परियोजना के लिये चयनित की गई है. बैठक में 334.584 हैक्टेयर राजस्व भूमि नि:शुल्क सौंपने की स्वीकृति दी गई है। इसके अलावा 34.745 हैक्टेयर निजी भूमि का भी अधिग्रहण कर लिया गया है। शेष 600.406 हैक्टेयर वन भूमि है। मुरैना जिला प्रशासन द्वारा इसके समतुल्य शासकीय राजस्व भूमि वन विभाग को हस्तांतरित की जा चुकी है। साथ ही वन भूमि के व्यपवर्तन का प्रस्ताव राज्य सरकार की सहमति से केन्द्र सरकार के पर्यावरण एवं वन मंत्रालय को भेजा जा चुका है। वहाँ वर्तमान में उक्त सहमति की प्रक्रिया भी अंतिम चरण में है।  केन्द्रीय मंत्री  नरेन्द्र सिंह तोमर के प्रयासों से मात्र पाँच माह के भीतर इतने बडे भू भाग का अधिग्रहण पूर्ण होने जा रहा है। चंबल क्षेत्र में इस रक्षा परियोजना की स्थापना से विकास के नये द्वार खुलेंगे।  प्राप्त जानकारी के मुताबिक इस रक्षा परियोजना की लागत लगभग 1500 करोड़ रूपए अनुमानित है। इसके लिये डीआरडीओ द्वारा वर्तमान में कुल 1200 करोड़ रूपए के वित्तीय प्रावधान का प्रमाण-पत्र प्रस्तुत किया है। इस रक्षा परियोजना की स्थापना में केन्द्र सरकार के निवेश से स्थानीय अधोसंरचना का विकास एवं उन्नयन होगा। जिससे स्थानीय जनता भी लाभान्वित होगी। रक्षा परियोजना के लिये वन भूमि, व्यपवर्तन प्रस्ताव में उल्लेख अनुसार इसका निर्माण मुख्यत: रक्षा विशेषज्ञों एवं डीआरडीओ के अधिकारियों द्वारा विशेष सुरक्षा प्रोटोकॉल के अनुसार कराया जायेगा।  यह होगा फायदा इस परियोजना के निर्माण से अप्रत्यक्ष रूप से स्थानीय लोगों को 15 लाख मानव दिवस के बराबर रोजगार मिलना संभावित है। इस रक्षा परियोजना की स्थापना लागत में से लगभग 500 करोड़ रूपए का अप्रत्यक्ष निवेश स्थानीय अधोसंरचना विकास में व्यय होने का अनुमान है। राज्य मार्ग क्रं.02 एवं राष्ट्रीय राजमार्ग क्रं.03 तक पहुँच मार्गों का निर्माण एवं उन्नयन और नहर के किनारे मार्ग एवं पुल बनाये जायेंगे। इससे अंतर्राज्यीय आवागमन सुगम होगा। जल प्रबंधन के लिये क्वारी नदी पर स्टॉप डेम बनेंगे। इससे लोगों को सिंचाई एवं निस्तार के लिये पानी उपलब्ध होगा। इसी तरह इस अंचल में विद्युत लाईनों का जाल भी बिछेगा। वन घनत्व में बढ़ोत्तरी इस परियोजना का महत्वपूर्ण पहलू है। परियोजना स्थल के बफर जोन में वृहद स्तर पर पौधरोपण इस परियोजना का अभिन्न अंग है।  केन्द्रीय मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने मध्यप्रदेश मंत्री परिषद के इस निर्णय पर हर्ष व्यक्त करते हुए कहा है कि यह ग्वालियर एवं चंबल संभाग के लिए बड़ी उपलब्धि है.इस निर्णय से क्षेत्र में बड़े सैनिक स्कूल की स्थापना का मार्ग प्रशस्त हो गया है. उन्होंने मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह की सराहना करते हुए उनका आभार माना है। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 February 2017

chmbal ghati

फूड एवं ग्रीन एग्रीकल्चर के विशेषज्ञ दल ने मुरैना में किया अध्ययन   फूड एण्ड एग्रीकल्चर आर्गेनाइजेशन के विशेषज्ञ दल ने चम्बल क्षेत्र को जैव-विविधता के मामले में समृद्ध और फूड एवं ग्रीन एग्रीकल्चर के लिये मुरैना को उपयुक्त बताया है। दल ने आज मुरैना में बीहड़ और पर्यटन की दृष्टि से महत्वपूर्ण क्षेत्रों का दौरा किया। विशेषज्ञ दल ने कहा कि चम्बल संभाग में जैव-विविधता की प्रबल संभावनाएँ मौजूद हैं। दल ने कृषि, वन और सब्जी उत्पादन तथा जैव-विविधता की जानकारियाँ प्राप्त की। दल बीहड़ों और नदी की स्थिति देखने के लिये जैतपुर और भानपुर क्षेत्र में भी पहुँचा। उन्होंने विभिन्न प्रजाति के पौधे और बीहड़ सहित यहाँ की मिट्टी के बारे में भी अध्ययन किया। भ्रमण के बाद विशेषज्ञ दल ने वन, कृषि तथा अन्य संबंधित विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की। दल ने बताया कि यहाँ की स्थितियों और उपलब्ध संसाधनों की जानकारियों की रिपोर्ट भारत सरकार के पर्यावरण एवं कृषि मंत्रालय को सौपेंगे। इसके आधार पर इन इलाकों में जैव-विविधता और ग्रामीणों की आजीविका को बढ़ावा देने की योजनाएँ बनायी जायेंगी, जिनका सीधा लाभ यहाँ के रहवासियों को मिलेगा। उल्लेखनीय है कि भारत सरकार द्वारा देश के 5 राज्य में जैव-विविधता और ग्रामीणों की आजीविका संबंधी प्रोजेक्ट तैयार करने के लिये विशेषज्ञों के दल द्वारा भौगोलिक परिस्थितियों का अध्ययन करवाया जा रहा है। मध्यप्रदेश के अलावा अन्य 5 राज्य राजस्थान, उत्तर प्रदेश, उत्तराखण्ड और उड़ीसा हैं। दल का नेतृत्व डॉ. जी.पी. कोपा कर रहे हैं। दल में डॉ. कोण्डा चावरेण्डी, डॉ. एच.एस. गुप्ता, डॉ. सुरजीत विक्रमन, डॉ. सीमा भट्ट और श्री प्रकाश सिंह शामिल हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 November 2016

murena

        मध्यप्रदेश में शिक्षा के नाम पर चलने वाल तमाम योजनाओं के बाद भी निरक्षर महिलाएं साक्षर नहीं हो पा रही हैं। जिसके चलते इन योजनाओं पर ही सवाल खड़े होने लगे हैं। हाल ही में आयी जनसंख्या निदेशालय की रिपोर्ट से हुए खुलासे में पता चला है कि प्रदेश के मुरैना जिले में अभी आधी से अधिक महिलाएं अनपढ़ हैं। इससे जिले में शिक्षा के लिए चलाई जा रहीं योजनाओं और विभिन्न अभियानों की पोल खुल गई है। ऐसा तब हो रहा है जब शासन स्कूलों व प्रौढ़ शिक्षा के कार्यक्रमों पर करोड़ों रुपए खर्च कर रहा है। रिपोर्ट के मुताबिक जिले में 19 लाख की आबादी में महिलाओं की संख्या 8 लाख 97 हजार 533 है। इनमें से चार लाख 65 हजार 533 महिलाएं अनपढ़ हैं। पढ़ी हुई महिलाओं की संख्या चार लाख 32 हजार 33 है। कैसे फैले शिक्षा का उजियारा जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में कई सरकारी स्कूल हैं, लेकिन इन स्कूलों का शिक्षा का स्तर बिगड़ता जा रहा है। स्कूलों में पढ़ाई न होने से पालक अपनी बेटियों को स्कूल नहीं भेजते या फिर गांव में स्कूल नहीं है तो लड़कों को स्कूल भेज देते हैं, लेकिन लड़कियों को घर पर रख लेते हैं। अंचल में अभी भी बाल विवाह या फिर निर्धारित आयु से कम उम्र में लड़कियों का विवाह हो रहा है। पांचवीं या आठवीं पास करने के बाद लड़कियों की शादी कर दी जाती है। जिससे लड़कियां आगे अपनी पढ़ाई जारी नहीं रख पाती हैं। स्नातक की संख्या भी कम जिले में हायर सेकंडरी व हाईस्कूलों की संख्या भी कम है। दूर होने से पालक लड़कियों को पढऩे के लिए नहीं भेजते। जहां तक कॉलेजों की बात है तो केवल शहरी क्षेत्रों में हैं। ऐसे में लड़कियां कॉलेज नहीं पहुंचती। यही वजह है कि स्नातक लड़कियों या महिलाओं की संख्या सबसे कम है। यह है जिले में शिक्षा की स्थिति निदेशालय की रिपोर्ट के मुताबिक जिले में चार लाख 32 हजार 33 महिलाएं ही पढ़ी लिखी हैं।जिले में वे महिलाएं जो स्कूल तो गईं लेकिन उनकी शिक्षा प्राइमरी से कम है। उनकी संख्या 92 हजार 473 है।  जिले में वे महिलाएं जिन्होंने पढ़ाई की और प्राइमरी भी पास की, लेकिन किन्हीं कारणों से मिडिल कक्षा पास नहीं कर पाईं। इनकी संख्या एक लाख 39 हजार 262 के करीब है। जिले में उन महिलाओं की संख्या 1 लाख 3 हजार 887 है जिन्होंने मिडिल स्कूल तो पास किया पर उन्होंने हाई स्कूल और हायर सेकंडरी करने से पहले ही स्कूल को छोड़ दिया।जिले में 64 हजार 758 महिलाएं ही ऐसी हैं जो मिडिल स्कूल पास करने के बाद हायर सेकंडरी तक पढ़ाई कर पाईं। इसके बाद उच्च शिक्षा प्राप्त नहीं कर पाईं।जिले में महज 15 हजार 773 महिलाएं ही ऐसी हैं, जो हायर सेकंडरी पास करने के बाद पीजी में पहुंची और उससे ऊपर पढ़ाई की।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 July 2016

मध्यप्रदेश सरकार अदिवासियों के साथ

मुख्यमंत्री ने अमेरिका से आदिवासियों को संबोधित किया दूरभाष परमुख्यमंत्रीशिवराजसिंह चौहान ने कहा है मध्यप्रदेश सरकार आदिवासियों के साथ है। श्री चौहान आज मुरैना के ग्राम जड़ेरूआ के पास जन सत्याग्रह यात्रा को संबोधित कर रहे थे। यह संबोधन उन्होंने अपनी विदेश यात्रा के दौरान अमेरिका से मोबाइल के जरिये किया। उन्होंने भूमि सुधार के संबंध में कहा कि इस पर केन्द्र सरकार को गंभीर होना चाहिये।श्री चौहान ने कहा कि आदिवासियों को पट्टे देने की प्रक्रिया फिर शुरू की जायेगी। मध्यप्रदेश सरकार ने आदिवासियों के बच्चों की पढ़ाई-लिखाई के लिये गंभीर प्रयास किये हैं। आदिवासियों के विरुद्ध लाखों छोटे-मोटे प्रकरणों को वापस लेने की प्रक्रिया मध्यप्रदेश सरकार शुरू करेगी।सांसद श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार आदिवासियों के प्रति संवेदनशील है। प्रदेश के कुल बजट का 23 प्रतिशत हिस्सा आदिवासियों के उत्थान के लिये रखा गया है।इस अवसर पर सांसद श्री नरेन्द्र सिंह तोमर, एकता परिषद के संयोजक श्री राजगोपाल पी.व्ही. और विधायक श्री शिवमंगल सिंह भी उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

Video
Advertisement
x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved ©2024 MadhyaBharat News.