Since: 23-09-2009

  Latest News :
प्रधानमंत्री पहुंचे राजघाट और विजय घाट पुष्पांजलि अर्पित की.   अजय माकन बने कांग्रेस के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष.   विकसित राष्ट्र के लिए आधुनिक हथियारों के साथ मजबूत सशस्त्र बल भी जरूरी : राजनाथ.   भारत में अफगान दूतावास ने आज से परिचालन बंद करने की घोषणा की.   किसानों और पिछड़ों के हितों की अनदेखी कर रही तेलंगाना सरकार : नरेन्द्र मोदी.   कमर्शियल एलपीजी सिलेंडर हुआ महंगा.   आज की स्थिति में मूल्यों- संविधान को चुनौती देने वाली ताकतें ज्यादा सक्रिय: कमलनाथ.   मुख्यमंत्री ने किया खेलो एमपी यूथ गेम्स का शुभारंभ.   प्रदेश में चल रहा सामाजिक क्रांति का अभियानः मुख्यमंत्री शिवराज.   चौरसिया महाकुंभ में कमलनाथ बोले- हम सच्चाई के साथ प्रदेश का भविष्य सुरक्षित करेंगे.   चंदेरी के ऐतिहासिक मंदिर में बनाया जाएगा जागेश्वरी माता मंदिर लोकः शिवराज.   जाम गेट के पास स्कूल बस पलटी 15 बच्चे घायल.   बस्तर बंद का आयोजन लोकतंत्र की हत्या और सत्ता का खुला दुरुपयोग : भाजपा.   स्वच्छता के क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले 13 ग्राम पंचायतो को मंत्री रविन्द्र चौबे ने किया सम्मानित.   चुनाव ड्यूटी में जाने से पहले कोर्स पूरा कराने में जुटे शिक्षक.   तीन अक्टूबर को बस्‍तर आएंगे पीएम मोदी.   कवासी लखमा ने नाला पार कर ग्रामीण का चुकाया उधार.   यात्री बस से 30 किलो गांजा के साथ एक महिला आरोपित गिरफ्तार.  

अनुपपूर News


Anuppur, Cylinder explodes , Chachai Power House

अनूपपुर। जिले के चचाई स्थित अमरकंटक ताप विद्युत गृह में सोमवार देर रात सिलेंडर में ब्लास्ट होने से दो मजदूर झुलस गए। दोनों मजदूरों को जिला चिकित्सालय अनूपपुर के बाद रायपुर रेफर कर दिया गया है। घटना के बाद प्लांट प्रबंधन के ऊपर लापरवाही बरतने का आरोप लगा है। वहीं घटना की जांच पुलिस कर रही है।     जानकारी अनुसार यह घटना अमरकंटक ताप विद्युत केंद्र चचाई के सीएचपी मेंटेनेंस विभाग की है। रात करीब 10 बजे कि घटना में सिलेंडर ब्लास्ट हो जाने से वहां मौजूद दो मजदूर 39 वर्षीय प्रवीण पुत्र भुवनेश्वर गुप्ता निवासी बरगवां थाना चचाई एवं रामनरेश पुत्र 40 वर्षीय भोला प्रसाद पटेल निवासी चचाई कालोनी परिसर शामिल हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 August 2023

bhopal, ractor holder families , Ladli Bahna Yojana,Shivraj

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रदेश में लाड़ली बहनों के हित में मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना में किए गए महत्वपूर्ण संशोधन के फलस्वरुप 21 से 23 वर्ष आयु वर्ग की बहनों के नाम जोड़े जाने का कार्य चल रहा है। जिन पात्र बहनों के नाम छूट गए हैं उनके नाम अनिवार्य रूप से जोड़े जाएंगे। उन्होंने स्पष्ट किया कि ट्रैक्टर धारक परिवार भी योजना का लाभ लेने के लिए पात्र होंगे। ऐसे परिवारों की लाड़ली बहनों के नाम भी प्रतिमाह राशि दिए जाने के लिए जोड़े जाएंगे।     मुख्यमंत्री चौहान बुधवार को विकास पर्व के अंतर्गत अनूपपुर में आयोजित महिला सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कार्यक्रम में 5600 करोड़ रुपये लागत की 660 मेगावाट क्षमता के विद्युत गृह की नवीन सुपर क्रिटिकल इकाई का शिलान्यास किया। यह इकाई अमरकंटक ताप विद्युत गृह चचाई की विस्तार इकाई है। मुख्यमंत्री ने अनूपपुर जिले को अनेक सौगातें दीं। कार्यक्रम में खाद्य और नागरिक आपूर्ति मंत्री बिसाहूलाल सिंह, जनजातीय कार्य मंत्री मीना सिंह सहित अनेक जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।   मुख्यमंत्री का अनूपपुर में जनदर्शन यात्रा के दौरान अभूतपूर्व स्वागत किया गया। मुख्यमंत्री ने कहा कि यात्रा के दौरान बहनों ने आरती उतारी। मैं बहनों के जीवन में अंधेरा नहीं आने दूंगा। आज बहनों ने यहां फूलों से मेरा स्वागत किया है। मैं उनके जीवन में कभी भी कांटे नहीं आने दूंगा।     लाड़ली बहना योजना के क्रियान्वयन के लिये 15 हजार करोड़ रुपये मुख्यमंत्री ने महिला सम्मेलन में कहा कि 10 अगस्त को दोपहर एक बजे रीवा से वे प्रदेश की लाड़ली बहनों के खातों में मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना की मासिक किश्त की राशि अंतरित करेंगे। यह योजना गृहणियों को घर के कई छोटे-मोटे कार्यों में सहयोगी बनी है। वर्तमान में योजना के क्रियान्वयन पर 15 हजार करोड़ रुपये की राशि व्यय की जा रही है। वर्तमान में एक हजार रुपये हर प्रतिमाह लाड़ली बहनों को दी जा रही है। आवश्यक वित्त व्यवस्थाएं करते हुए यह राशि प्रतिमाह तीन हजार करने का लक्ष्य है।     उन्होंने कहा कि पूर्व सरकार ने विशेष पिछड़ी जनजातियों बैगा, सहरिया और भारिया को प्रतिमाह मिलने वाली एक हजार रुपये की राशि देना बंद कर दी थी। मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना, बहनों को प्रसव के लिए 16 हजार रुपये की राशि और अन्य सुविधाओं को बंद कर दिया गया था। इन सभी योजनाओं को फिर से शुरू कर गति प्रदान की गई है। सड़क, पानी, बिजली, सिंचाई, खाद्यान्न वितरण, स्वास्थ्य क्षेत्र, शिक्षण सुविधाओं के विकास के साथ ही किसानों के हित में कल्याणकारी कार्यक्रम निरंतर चल रहे हैं।   स्टोरेज वियर का लोकार्पण मुख्यमंत्री ने अनूपपुर में 6 करोड़ 94 लाख रुपये की लागत से जैतहरी के पास सोन नदी पर निर्मित चोलना स्टोरेज वियर का लोकार्पण किया। उन्होंने कहा कि प्रदेश में अधोसंरचनात्मक विकास से नागरिकों को प्रत्यक्ष लाभ प्राप्त हुआ है। जिले में आम जनता के लिए विभिन्न क्षेत्रों में महत्वपूर्ण सुविधाओं का विकास हुआ है। मुख्यमंत्री को भगवान श्रीराम की प्रतिमा भेंट मुख्यमंत्री चौहान के अनूपपुर नगर के जन दर्शन के दौरान जिले के नागरिकों ने भव्य स्वागत करते हुए उन्हें भगवान श्रीराम की प्रतिमा भेंट की। मुख्यमंत्री को ब्राह्मण समाज ने भगवान परशुराम का चित्र भेंट कर अभिनंदन किया।   विभिन्न सामाजिक संगठनों ने किया भव्य स्वागत जनदर्शन के दौरान मुख्यमंत्री का विभिन्न सामाजिक संगठनों ने शाल, श्रीफल एवं पुष्प मालाओं से भव्य स्वागत किया। जनदर्शन में दिखा जन उत्साह अनूपपुर की सड़कों पर जन दर्शन में व्यापक जन उत्साह दिखाई दिया। अनेक जन-प्रतिनिधि भी जनदर्शन में उपस्थित थे। मुख्यमंत्री ने रोड शो के दौरान लोक नृर्तकों के साथ नृत्य कर नर्तकों का उत्साहवर्धन किया। ग्राम परसवाह एवं पिपरहा के गुदुम्ब नृतक दलों ने बांसुरी की सुमधुर की ध्वनि और मादर की ताल पर रंगारंग नृत्य प्रस्तुत किए।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 August 2023

bhopal , tribal society ,sickle cell anemia

भोपाल। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि सिकलसेल एनिमिया से पीड़ित लोग पूरे जीवन इससे जूझते रहते हैं। पूरी दुनिया में इस रोग के 50 प्रतिशत मरीज हमारे देश में हैं। पिछले 70 साल में सिकल सेल एनीमिया बीमारी की चिंता नहीं हुई। इससे निपटने के लिए कोई ठोस प्लान नहीं बनाया गया। इससे प्रभावित ज्यादातर लोग आदिवासी समाज के हैं। आदिवासी समाज के प्रति बेरुखी के चलते पहले की सरकारों के लिए ये कोई मुद्दा ही नहीं था। लेकिन आदिवासी समाज की इस सबसे बड़ी चुनौती से निपटने का बीड़ा हमारी सरकार ने उठाया है। हमारे लिए आदिवासी समाज सिर्फ एक सरकारी आंकड़ा नहीं है। ये संवेदनशीलता के साथ ही भावनात्मक मुद्दा है।     प्रधानमंत्री मोदी शनिवार को मध्य प्रदेश के एक दिवसीय प्रवास के दौरान शहडोल जिले के ग्राम लालपुर में राष्ट्रीय सिकल सेल एनीमिया उन्मूलन मिशन 2047 के शुभारंभ कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कार्यक्रम में रिमोट का बटन दबाकर इस राष्ट्रीय मिशन की शुरुआत की और मिशन को लेकर गाइडलाइन का भी विमोचन किया। प्रधानमंत्री ने सिंगल क्लिक के माध्यम से साढ़े तीन करोड़ हितग्राहियों को डिजिटल आयुष्मान कार्ड का वितरित किया। साथ ही एमपी में एक करोड़ पीवीसी आयुष्मान कार्ड वितरण का शुभारंभ भी किया। इस दौरान प्रधानमंत्री ने अदिति यादव नाम की छोटी9सी बच्ची समेत अन्य हितग्राहियों को आयुष्मान योजना के कार्ड वितरित किए।     कार्यक्रम में प्रधानमंत्री मोदी ने जय सेवा, जय जोहार के नारे से अपने संबोधन की शुरुआत की। उन्होंने कहा कि आज मुझे रानी दुर्गावती जी की इस धरती पर आप सभी के बीच आने का मौका मिला। मैं रानी दुर्गावती के चरणों में अपनी श्रद्धांजलि समर्पित करता हूं। उनकी प्रेरणा से सिकल सेल एनीमिया उन्मूलन मिशन की शुरुआत हो रही है। आज ही मध्य प्रदेश में एक करोड़ लोगों को आयुष्मान कार्ड भी दिए जा रहे हैं। मैं आप सभी को और मध्य प्रदेश की डबल इंजन सरकार को बधाई देता हूं। आज देश शहडोल की धरती से बहुत बड़ा संकल्प ले रहा है। यह संकल्प है सिकलसेल एनिमिया से आदिवासी बच्चों और परिवारों को बचाने का है।     प्रधानमंत्री ने कहा कि सिकलसेल एनिमिया जैसी गंभीर बीमारियों को खत्म करने के लिए हमारी सरकार दिन-रात मेहनत कर रही है। इन्हीं प्रयासों से टीबी के मामले में कमी आई है। 2025 तक टीबी को जड़ से खत्म करने पर काम हो रहा है। हमारी सरकार की कोशिश है कि लोगों को बीमारी कम हो और बीमारी पर होने वाला खर्च भी कम हो। इसलिए आयुष्मान योजना लेकर आए हैं। ये कार्ड पांच लाख रुपए तक के एटीएम के रूप में काम करेगा। ये मोदी की गारंटी है। इस योजना के तहत अब तक पांच करोड़ लोगों का इलाज हो चुका है।     शादी से पहले रक्त कुंडली जरूर मिलाएं: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डा. मनसुख मांडविया ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि आज का यह दिन इतिहास के स्वर्णिम पन्नों में लिखा जाएगा। आज के दिन प्रधानमंत्री सिकल सेल जैसी बीमारी को खत्म करने के लिए कार्यक्रम की शुरुआत कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस बीमारी से कई देशों ने मुक्ति पा ली है। प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में इस बीमारी को खत्म करने के लिए बहुत बड़ी योजना तैयार की गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि आप बच्चों की शादी करते समय रक्त कुंडली अवश्य मिलाएं। आयुष्मान ग्राम सभाएं आयोजित की जाएंगी जिसमें वंचित लाभार्थियों को आयुष्मान कार्ड बनवाने की जानकारी दी जाएगी। आयुष्मान योजना से अब तक पांच करोड़ से अधिक लोगों ने लाभ उठाया है।     केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने कहा कि राज्यपाल मंगुभाई पटेल के आने के बाद सिकल सेल की लगातार चिंता हुई है। प्रधानमंत्री विशेष तौर पर इस ओर ध्यान दे रहे हैं, आदिवासी क्षेत्र में इस बीमारी को जड़ मूल से खत्म करने का संकल्प लिया है। आज इसकी शुरुआत शहडोल की धरती से हो रही है।   जारी..

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 July 2023

anuppur, Bus overturned, PM Modi

अनूपपुर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कार्यक्रम शामिल होने जा रहीं यात्री बस शनिवार सुबह पलट गई। हादसे में 24 लोग घायल हुए हैं। घायलों को जिले के स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती करवाया गया है।   बस डिंडौरी जिले के धनुआ सागर से शहडोल जा रही थी। इस दौरान अनूपपुर जिले के पथरुआ घाट में मोड़ पर अनियंत्रित होकर पलट गई। बस में लगभग 30 लोग सवार थे। डिंडौरी कलेक्टर विकास मिश्रा ने बताया कि बस में सवार सभी लोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम में शामिल होने के लिए शहडोल जा रहे थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 July 2023

anuppur, uncontrollable pickup , one died

अनूपपुर। शहडोल जिले के ब्यौहारी से बुधवार सुबह कुदरगढ़ मन्दिर जा रहे लोगों से भरा एक पिकअप वाहन राष्ट्रीय राज्य मार्ग पर डोला मोड के पास रेलवे फाटक के पहले अनियंत्रित होकर सडक किनारे बने घर में घुस गया और पलट गया। इस हादसे में एक व्यक्ति की मौके हो गई, जबकि 10 घायल हो गए। तीन व्यक्तियों को चोट ज्यादा होने पर के कारण जिला अस्पताल अनूपपुर रेफर किया गया है।     थाना रामनगर से मिली जानकारी के अनुसार, बुधवार की सुबह एक पिकअप में सवार शहडोल जिले के ब्यौहारी से 20 लोग कुदरगढ़ मन्दिर जा रहे थे। इसी दौरान राष्ट्रीय राज्य मार्ग के डोला मोड पर रेलवे फाटक के पहले पिकअप वाहन के सामने एक बैल आ गया। उसे बचाने के कारण पिकअप अनियंत्रित होकर जगदीश केवट के घर से जा टकराई, जिससे वाहन के ऊपर बने कैबिन में बैठे 27 वर्षीय अरविंद उर्फ छोटू पुत्र गोविंद कोल की घर पर लगे टीन सीड से कला कटने से मौके ही मौत हो गई। स्थानीय लोगों की मदद से थाना रामनगर के 100 डायल पुलिस द्वारा बिजुरी अस्पताल ले जाया गया है। अन्य 10 लोगों को मामूली चोटें आई हैं। उनका प्राथमिक इलाज सामुदायिक स्वास्थ्य बिजुरी में कराया गया और इसके बाद सभी लोग वापस अपने ग्राम चले गये। तीन गंभीर रूप से घायलों को अनूपपुर जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।   घायलों में 35 वर्षीय मोले प्रजापति निवासी ग्राम भमरहा, 38 वर्षीय रामसेवक पटेल ग्राम सकला, 31 वर्षीय मनोज कोल, 50 वर्षीय रामनरेश पटेल, 40 वर्षीय प्रमोद पटेल, 21 वर्षीय पुष्पराज सिंह पटेल, 35 वर्षीय राजकुमार पटेल, 28 वर्षीय भोले पटेल, चालक राजेश पटेल, रामज्ञान पटेल सभी एक शहडोल जिले के ब्यौहारी तहसील के ग्राम अखेतपुर निवासी हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 May 2023

anuppur, Two women died ,closed mine

अनूपपुर। जिले के रामनगर थाना के बनगंवा नगर परिषद क्षेत्र में रविवार सुबह बंद पड़ी कोयले की खदान में अवैध उत्खनन करते समय दो महिलाओं की जान चली गई। हादसा प्रेमनगर साइडिंग की बंद खदान में हुआ।   जानकारी के अनुसार, बंद पड़ी खदान में कोयले का अवैध उत्खनन करते समय दो महिलाओं की मौत हो गई है। मृतकों के नाम कौशल्या (48) पत्नी नागेंद्र पनिका वार्ड नंबर 14 प्रेम नगर, इंद्र कली (48) पत्नी विक्रम मेहरा इंद्रनगर वार्ड नंबर 13 बताए गए हैं। राजनगर पुलिस द्वारा फिलहाल रेस्क्यू किया जा रहा है। पुलिस द्वारा अन्य किसी के मलबे में दबे होने की आशंका जताई गई है। मृतक महिलाओं को बिजुरी स्वास्थ्य केंद्र लाया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 May 2023

anuppur, Rail traffic ,remained disrupted

अनूपपुर। दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के बिलासपुर-कटनी रेलखंड के सिंहपुर रेलवे स्टेशन पर हुए भीषण हादसे के तीसरे दिन शुक्रवार को भी यात्री ट्रेनों की आवाजाही बहाल नहीं हो सकी। गुरुवार की रात तीसरी लाइन के लिए बिछाई गई नई ट्रैक को चालू किया गया। गुरुवार रात 9.20 पर मालगाड़ी निकाली। इस बीच सिंहपुर हादसे के बाद से लगातार तीसरे दिन भी यात्री ट्रेनें नहीं चलने से आमजन परेशान हुए। इलाज व दूसरे जरुरी कार्यों से बाहर जाने वाले किराए पर वाहन लेकर ज्यादा पैसे खर्च कर यात्रा करने विवश हैं। इधर, सिंहपुर में रेल हादसे के बाद सुधार कार्य में जुटे रेल अधिकारियों ने दावा किया 21 अप्रैल की शाम तक सिंहपुर से यात्री ट्रेनों की आवाजाही प्रारंभ होने की संभावना है। मशीनरी की मदद से हटा रहे मलबा रेलवे ट्रैक पर बिखरे पड़े मालगाड़ी के मलवे को हटाने के लिए मशीनरी की मदद ली जा रही है। रेस्टोरेशन का कार्य प्रारंभ कर 6 जेसीबी, 140 टन की दो क्रेन व 70 टन की एक क्रेन की मदद से मालगाड़ी के इंजन व डिब्बों को हटाया जा रहा है। इसके अलावा यूएसडी मशीन व 4 पैकिंग मशीन रेलवे लाइन को दुरुस्त करने में लगी है। घटना के दौरान विद्युत पोल व लाइन भी क्षतिग्रस्त हुई है। 4 टॉवर कार की मदद से क्षतिग्रस्त विद्युत लाइन को सुधारा जा रहा है। इसके अलावा मौके पर 1000 से ज्यादा रेल कर्मचारी रेस्टोरेशन के कार्य में जुटे हुए हैं।   बिलासपुर जोन के सीपीआरओ साकेत रंजन ने बताया कि 4 इंजनों को हटा लिया गया हैं। 6 बोगी से कोयला हटाने का कार्य जारी हैं, शाम तक बोगियों को हटाया जायेगा। इसके बाद पटरी का काम के बाद सिंगनल का कार्य किया जायेगा। उम्मीद हैं कि शनिवार सुबह तक यातायात बहाल हो जायेगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 April 2023

anuppur, MP: Collision, two goods trains

अनूपपुर। दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे बिलासपुर जोन के शहडोल उपमंडल के सिंहपुर (मप्र) रेलवे स्टेशन पर बुधवार की सुबह दो माल गाड़ियों में भिड़ंत हो गई। इस हादसे में एक लोको पायलट की मौत हुई है और चार लोग घायल हुए हैं। घायलों में एक लोको पायलट तथा अन्य कर्मचारी हैं। हादसे में मालगाड़ी के नौ डिब्बे पटरी से उतर गए हैं। रेलवे के अधिकारी और कर्मचारी मौके पर पहुंच गए हैं और राहत एवं बचाव कार्य शुरू कर दिया गया है। हादसा सुबह तकरीबन 7.15 बजे हुआ। इसके बाद उक्त रेल लाइन पर यातायात बाधित हो गया है। रेलवे के अधिकारियों के अनुसार घटना किस तरह हुई, यह जांच के बाद ही बताया जा सकेगा। घटना बड़ी है, जिसकी जांच की जाएगी। समाचार लिखे जाने तक इस रूट पर यातायात बाधित है, जिसके कारण कटनी और बिलासपुर की ओर से आने जाने वाली ट्रेनों वह माल गाड़ियों को रोका गया है। बचाव कार्य चल रहा है, जल्दी ही आवागमन चालू किया जाएगा। हादसे के बाद रेल विभाग द्वारा हेल्पलाइन नंबर 1072 जारी किया गया है। रेल अधिकारियों के अनुसार दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के बिलासपुर-कटनी रेलखंड पर आज प्रातः सिंहपुर स्टेशन में कोयला लोडेड मालगाड़ी के सिग्नल ओवरशूट करने के बाद इंजन सहित 09 वैगनों के पटरी से उतर जाने के फलस्वरूप इस मार्ग पर अप, डाउन एवं मिडिल तीनों लाइनों पर रेल परिचालन अवरुद्ध होने के कारण इस मार्ग पर रेल परिचालन प्रभावित हुआ है, जिसकी विस्तृत जानकारी इस प्रकार है :-   रद्द की गई रेलगाड़ियां 1. बिलासपुर से शहडोल के लिए चलने वाली ट्रेन नंबर 08740 बिलासपुर-शहडोल मेमू 19 अप्रैल, 2023 को रद्द रहेगी। 2. शहडोल से अम्बिकापुर के लिए चलने वाली ट्रेन नंबर 08749 शहडोल-अम्बिकापुर मेमू 19 अप्रैल, 2023 को रद्द रहेगी। 3. अम्बिकापुर से अनुपपुर के लिए चलने वाली ट्रेन नंबर 08758 अम्बिकापुर-अनुपपुर मेमू 19 अप्रैल, 2023 को रद्द रहेगी। 4. अनुपपुर से मनेंद्रगढ़ के लिए चलने वाली ट्रेन नंबर 08759 अनुपपुर-मनेंद्रगढ़ मेमू 19 अप्रैल, 2023 को रद्द रहेगी । 5.मनेंद्रगढ़ से अम्बिकापुर के लिए चलने वाली ट्रेन नंबर 08757 मनेंद्रगढ़-अम्बिकापुर मेमू 20 अप्रैल, 2023 को रद्द रहेगी। 6. अम्बिकापुर से शहडोल के लिए चलने वाली ट्रेन नंबर 08750 अम्बिकापुर-शहडोल मेमू 20 अप्रैल, 2023 को रद्द रहेगी। 7. शहडोल से बिलासपुर के लिए चलने वाली ट्रेन नंबर 08739 शहडोल-बिलासपुर मेमू 19 अप्रैल, 2023 को रद्द रहेगी। 8. अम्बिकापुर से शहडोल के लिए चलने वाली ट्रेन नंबर 18576 अम्बिकापुर-शहडोल 19 अप्रैल, 2023 को रद्द रहेगी। 9. शहडोल से अम्बिकापुर के लिए चलने वाली ट्रेन नंबर 18755 शहडोल-अम्बिकापुर मेमू 19 अप्रैल, 2023 को रद्द रहेगी। 10. बिलासपुर से इंदौर के लिए चलने वाली ट्रेन नंबर 18234 बिलासपुर-इंदौर नर्मदा एक्सप्रेस 19 अप्रैल, 2023 को रद्द रहेगी।   पुनर्निर्धारित (रिशेड्यूल) की गई रेलगाड़ियां 1. दुर्ग से चलने वाली ट्रेन नंबर 20847 दुर्ग – ऊधमपुर एक्सप्रेस को आज 2 घंटे विलंब से रवाना की जाएगी।   गंतव्य से पहले रद्द की गई रेलगाड़ियां 1. ट्रेन नंबर 08747 बिलासपुर – कटनी को पेंड्रारोड में रद्द । 2. ट्रेन नंबर 11266 अम्बिकापुर – जबलपुर को बिजुरी में रद्द। 3. ट्रेन नंबर 11265 जबलपुर – अम्बिकापुर को जबलपुर मण्डल में रद्द।   मार्ग परिवर्तित गाड़ियां 1. बरौनी से 18 अप्रैल को रवाना हुई ट्रेन नंबर 15231 बरौनी – गोंदिया । 2. अजमेर से 18 अप्रैल को रवाना हुई ट्रेन नंबर 18208 अजमेर – दुर्ग।   यात्रियों की सुविधा हेतु मंडल के बिलासपुर सहित सभी प्रमुख स्टेशनों में हेल्प डेस्क की सुविधा हादसे के फलस्वरूप इस मार्ग पर अप, डाउन एवं मिडिल तीनों लाइन पर रेल परिचालन अवरुद्ध होने के कारण इस मार्ग पर रेल परिचालन प्रभावित हुआ है। इस दौरान यात्रियों को किसी भी प्रकार की असुविधा न हो, इसकी भी विशेष ध्यान रखा जा रहा है। सभी जानकारी यात्रियों को सभी प्रमुख स्टेशनों में डिस्प्ले बोर्ड तथा उद्घोषणा प्रणाली द्वारा दी जा रही है। इसी क्रम में सहयोग केंद्र (पूछताछ) के साथ ही यात्रियों को गाड़ियों के परिचालन से संबंधित विविध जानकारी उपलब्ध कराने हेतु मंडल के बिलासपुर, पेंड्रारोड, अनूपपुर, शहडोल जैसे सभी प्रमुख स्टेशनों में में आई हेल्प यू (May I Help You) बूथ भी खोले गए हैं। एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि रेलवे प्रशासन ने हमेशा से इस बात को ध्यान में रखा है कि यात्रा के दौरान यात्रियों को किसी भी प्रकार की असुविधा ना हो। यात्रियों से आग्रह है कि वे ट्रेनों के रद्दीकरण के अलावा अन्य सभी जानकारियों के लिए May I Help You बूथ में जाकर विस्तृत जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। इसके अलावा हेल्प लाइन नं 1072 जारी कर जानकारी उपलब्ध कराई जा रही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 April 2023

anuppur, Hailstorm,heavy rain

अनूपपुर। पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से मौसम के रंग बार- बार बदल रहे है। जिले के अनेक क्षेत्रों में बारिश और ओलावृष्टि देखने को मिल रही है। वहीं अबतक की ओलावृष्टि से नुकसान होने की जरनकारी नहीं हैं। वहीं शुक्रवार की दोपहर जिले में एक बार फिर मौसम ने करवट बदला और झमा-झम बारिश से पूरा जिला तरबतर हो गया। लगातार 24 घंटे से रुक- रुक कर तेज बारिश हो रही हैं। वही पुष्पराजगढ़ एवं जैतहरी विकासखंड के कुछ ग्रामों में बर्फबारी भी हुई हैं। जिसके कारण जिले का मौसम एक बार फिर ठंडा हो गया। तेज हवाओं और बारिश की वजह से कई जगहों पर बिजली के खंभे भी टूटे हैं। जिसके कारण जिले में बिजली बाधित है। काफी तेज आंधी तूफान के कारण ग्राम लेढरा और चंदनिया में बिजली के 11 केवी पोल टूट गए हैं। वहीं तहसील पुष्पराजगढ़ में जय सिंह पिता बजारु ग्राम धुराधर की आकाशीय बिजली से आज मृत्यु हो गई हैं।   मध्य प्रदेश सहित अनूपपुर जिले में बीते कई दिनों से लगातार बारिश हो रही हैं इससे किसानों को काफी नुकसान उठाना पड़ रहा हैं। मौसम विभाग ने आज शहडोल संभाग सहित रीवा, जबलपुर, नर्मदापुरम, भोपाल सागर और इंदौर संभाग के जिलों को लेकर बारिश के साथ आंधी और बिजली गिरने का अलर्ट जारी किया था। अनूपपुर जिले में लगातार दो दिनों से रुक-रुक हो रही बारिश से 31 मार्च की दोपहर अचानक मौसम ने फिर एक बार करवट लिया और झमा-झम बारिश से पूरा जिला तर बतर हो गया। वहीं पुष्पराजगढ़ एवं जैतहरी विकासखंड के कुछ ग्रामों में बर्फबारी भी हुई हैं। पुष्पराजगढ़ के ग्राम पोड़की, भेजरी, पोड़ी, लालपुर, लपटी सहित आसपास के ग्रामों में ओलावृष्टि की खबर हैं। इसी तरह जैतहरी विकासखंड के खाड़ा सहित कुछ ग्रामों में ओलावृष्टि की जानकारी मिली हैं। जिले में 24 घंटे से रुक-रुक हो रहीं बारिश हो रही हैं। मौसम मे अचानक हुए परिवर्तन से जहाँ लोगो ने उमस भरी गर्मी से राहत के साथ ठंड का अहसास दिलाया हैं। वही किसानो के माथे मे एक बार फिर चिंता की लकीर देखने को मिल रहीं हैं। मौसम मे आए बदलाव ने रबी फसल की तैयारियों में व्यवधान पैदा कर दिया है। अचानक हुए इस बदलाव के कारण फसलों को भी नुकसान होने की आशंका जताई जा रही हैं। ओलावृष्टि से खेतों में चना, मसूर, अरहर, सरसों आदि दलहन-तिलहन की फसलों को नुकसान होने की आशंका बताई जा रही है। 31 मार्च तक की वर्षा जिले की औसत वर्षा 8.2 मिमि. अबतक की कुल वर्षा 66.0 मिमि मापी गई हैं। अनूपपुर में 8.4 मिमि, कोतमा 10.0 मिमि,बिजुरी 5.0 मिमि,जैतहरी 8.2 मिमि, वेंकटनगर 6.9 मिमि, पुष्पराजगढ़ 18.0 मिमि,अमरकंटक 7.3 मिमि एवं बेनीबारी 2.2 मिमि वर्षा दर्ज की गई हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 March 2023

anuppur, Husband hanged , attacking his wife

अनूपपुर। कोतमा थाना क्षेत्र में सनकी पति ने पहले पत्नी पर जनलेवा हमला किया, फिर फांसी पर झूल कर आत्महत्या कर लिया। पुलिस ने मर्ग कायम कर परिजनों की उपस्थिति में पंचनामा बना पोस्ट मार्टम के लिए भेज कर मामले की पड़ताल में जुट गई है।   जिले के अमरकंटक दूधमनिया टोला निवासी पति रामप्रसाद सिंह गौड़ अपनी पत्नी इंद्रवती के साथ कोतमा थानां क्षेत्र के लहसुई में किराये के माकान में रहकर मजदूरी करते थे, इसी बीच 28 मार्च की रात किसी बात को लेकर पति पत्नी में विवाद हो गया, विवाद इतना बढ़ गया कि पति ने पत्नी के ऊपर जानलेवा हमला कर दिया, जिससे गंभीर रूप से घायल हो गई। जहां घायल इंद्रवती को पड़ोसियों ने 29 मार्च को उपचार के लिये अनूपपुर जिला चिकित्सालय ले जाया गया, लेकिन हालात ज्यादा बिगड़ने पर शहड़ोल मेडिकल कालेज रेफर कर दिया गया, जहां वह जिंदगी मौत की लड़ाई लड़ रही है। घटना के बाद सनकी पति खुद भी फांसी पर झूल कर आत्महत्या कर लिया। जानकारी के बाद कोतमा पुलिस ने मर्ग कायम कर परिजनों की उपस्थिति में पंचनामा बना पोस्टामार्टम के लिए भेज कर मामले की पड़ताल में जुट गई है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 March 2023

anuppur, Case registered,National Tribal University

अनूपपुर। जिले के अमरकंटक स्थित इंदिरा गांधी राष्ट्रीय जनजाति विश्वविद्यालय में छात्रों के साथ हुई घटना के मामले में रविवार की रात 10 बजे अनूपपुर पुलिस ने प्रेस नोट जारी कर बताया कि छात्रों के कथनों के आधार पर थाना अमरकंटक में अपराध की धारा 294,323,506, 34 ताहि, सुरक्षा गार्ड रामेश्वर मांझी, सुरक्षा सुपरवाइजर छविलाल मेहरा एवं वीरेंद्र सिंह के विरुद्ध प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया है।   ज्ञात हो कि इंदिरा गांधी राष्ट्रीय जनजाति विश्वविद्यालय अमरकंटक में 10 मार्च की सायं छात्रावास के चार लड़के विश्वविद्यालय स्थित पानी की टंकी में अपना वीडियो बनाने के लिए चढ़े थे। जिन्हें देखकर ड्यूटी में तैनात सुरक्षा गार्ड के द्वारा नीचे उतरने के लिए कहा गया। जिस पर टंकी पर चढ़े चारों छात्र नीचे उतर आए। सुरक्षा गार्ड के द्वारा चारों लड़कों से अपने आईडी कार्ड प्रस्तुत करने हेतु कहा गया, जिस पर छात्रों ने अपना आईडी कार्ड प्रस्तुत नहीं किया। इसी बात पर दोनों पक्षों के मध्य वाद विवाद की स्थिति निर्मित हो गई एवं छात्रों तथा सुरक्षा गार्ड रामेश्वर मांझी सुरक्षा सुपरवाइजर वीरेंद्र सिंह एवं छविलाल मेहरा के मध्य धक्का-मुक्की मारपीट एवम गाली गलौज की घटना घटित हुई।   पुलिस ने घटना के उपरांत चारों छात्रों का मेडिकल परीक्षण कराया गया, जो सामान्य है। छात्रों के मेडिकल परीक्षण एवं कथनों के आधार पर थाना अमरकंटक में अपराध की धारा 294,323,506, 34 ताहि, सुरक्षा गार्ड रामेश्वर मांझी, सुरक्षा सुपरवाइजर छविलाल मेहरा एवं वीरेंद्र सिंह के विरुद्ध प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया है। आवेदक छात्रों की रिपोर्ट पर पुलिस के द्वारा प्रकरण पंजीबद्ध करते हुए समुचित वैधानिक कार्यवाही की गई है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 March 2023

anuppur,Devotees , dip of faith , Narmada , Magh Purnima

अनूपपुर। माघ पूर्णिमा के पावन पर पवित्र नगरी अमरकंटक में रविवार को नर्मदा तीर्थकोटी कुंड एवं रामघाट में हजारों श्रद्धालुओं आस्था की डुबकी लगाई और दीपदान किया तथा सूर्य देव को प्रणाम कर अर्ध्य दिया। इस दौरान नर्मदे हर के जयकारों से मां नर्मदा के स्नान घाट एवं नर्मदा उद्गम मंदिर प्रांगण गूंज उठा।   कतारबद्ध होकर श्रद्धालु मां नर्मदा के दर्शन करते दिखे। इस मौके पर श्रद्धालुओं ने गरीब निराश्रितों ब्राह्मणों को तिल, गुड़, कंबल व वस्त्र दान किए। माघी पूर्णिमा पर नर्मदा स्नान करने के लिए दूर-दूर से श्रद्धालुओं का अमरकंटक आगमन होता है। पूर्णिमा के इस अवसर पर अमरकंटक के विभिन्न आश्रमों,मंदिरों,देवालयों एवं सार्वजनिक स्थानों में भंडारा,प्रसाद का भी आयोजन रखा गया जहां लोगों ने प्रसाद ग्रहण किया।   माघी पूर्णिमा में स्नान का महत्व- धार्मिक दृष्टिकोण से इस मास का बहुत अधिक महत्व है। इस मास में शीतल जल के भीतर डुबकी लगाने वाले मनुष्य पापमुक्त हो जाते हैं। माघ मास या माघ पूर्णिमा को संगम में स्नान का बहुत महत्व है। संगम नहीं तो गंगा, गोदावरी, कावेरी, नर्मदा, कृष्णा, क्षिप्रा, सिंधु, सरस्वती, ब्रह्मपुत्र आदि पवित्र नदियों में स्नान करना चाहिए।   नर्मदा मंदिर के मुख्यप पुजारी धनेश द्विवेदी (वंदे महराज) ने बताया कि यह जो माघ का महीना स्नान के लिए अत्यंत पावन पुण्यदायी है। माघ मास के पूर्णिमा के दिन गंगा,नर्मदा सहित अन्य पवित्र नदियों में स्नान करने पर अनंत कोटि गुणफल की प्राप्ति होती है। इस मास में किए गए दान से समस्त प्रकार की मनोकामना पूर्ण होती है। आज के ही दिन जो लोग एक महीने का कल्पवास करते है आज उसकी पूर्णयता होती है। जो लोग माता जी के आश्रय लेकर नर्मदा तट में स्नान कर नर्मदा जी का दर्शन करता है वह धन धान्य लक्ष्मी वैभव एवं सुख शांति से अपना जीवन संपन्न करके अपने आपको धन्य बना लेता है। शास्त्र में तीन मास का स्नान वर्णित है जिसमे प्रथम कार्तिक मास, दूसरा माघ मास तीसरा वैशाख मास है। जो लोग माघ मास पूर्णिमा के दिन स्नान करते है उन्हे पूरे महीने के स्नान का पुण्य फल की प्राप्ति होती है। इसके साथ भगवान लक्ष्मी नारायण की कृपा मिलती है और मनवांछित मनोकामना पूर्ण होती है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 February 2023

सीएम शिवराज ने अनूपपुर जिले की विभागीय समीक्षा बैठक

  कई बातों पर जताई संतुष्टि ,कई कामों को लेकर हुए नाराज  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अनूपपुर जिले की विभागीय समीक्षा बैठक की। अनूपपुर जनपद ब्लाक के ग्राम धूम्मा में अज्ञात व्यक्तियों द्वारा ट्रांसफार्मर से वायर चोरी दो बार कर ली गई, जिससे पानी सप्लाई में बाधा आ रही थी यह शिकायत विभाग को कई बार ग्रामीणों द्वारा की गई थी। इसी मामले पर मुख्यमंत्री ने जानकारी ली थी। समीक्षा बैठक के दौरान अनूपपुर कलेक्टर सोनिया मीना ने दूसरी शिकायत की जानकारी मुख्यमंत्री को देते हुए बताया कि ग्राम पयारी नंबर दो और खमरौध में ठेकेदार द्वारा पाइप लाइन विस्तार में लापरवाही की, जिसके कारण दोनों ठेकेदार को नोटिस देते हुए पेमेंट रोक दी गई है।जल जीवन मिशन के कार्यों की समीक्षा के दौरान सीएम शिवराज ने लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्यपालन यंत्री को इस बात के लिए माफी मांगने के लिए कहा कि उन्होंने पूरे गांव को सामान चोरी कर ले जाने की बात कह दी थी। मुख्यमंत्री का कहना था एक दो लोगों की यह हरकत हो सकती है, इसलिए ऐसा कहना उचित नहीं है कि गांव वाले सामान चुरा ले जाते हैं। अपने इन शब्दों के लिए अनूपपुर कार्यपालन यंत्री जितेंद्र मिश्रा ने माफी मांगी। सीएम शिवराज  ने समीक्षा शुरू करने से पहले  नवरात्रि की शुभकामनाएं दी। सीएम ने प्रधानमंत्री आवास योजना की समीक्षा करते हुए कहा कि प्रभारी मंत्री, विधायक भी प्रधानमंत्री आवास योजना की मॉनिटरिंग करें। यदि किसी हितग्राही से अनुचित रूप से रुपयों की मांग की जाती है तो सख्त कार्रवाई की जाए।किसी तकनीकी कारण से हितग्राहियों के प्रकरण मंजूरी होने में समस्या आ रही है उसे गंभीरता से देखा जाए ताकि कोई गरीब आवास सुविधा से वंचित न रह जाए जो पुराने आवास बनने से रह गए हैं उन्हें पूरे कराए जाएं।स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री ने प्रशंसा जाहिर की और कहा कि शिशु मृत्यु मामले में अनूपपुर पहले नीचे था अब 11वें नंबर पर आ गया है इसी तरह टीवी प्रबंधन पर बेहतर काम हुआ, जिससे अनूपपुर राज्य का नंबर एक जिला बन गया है। स्वास्थ्य विभाग इसके लिए बधाई का पात्र है और अच्छा कार्य स्वास्थ्य क्षेत्र में किए जाएं। लोक निर्माण विभाग को जैतहरी क्षेत्र से राष्ट्रीय राजमार्ग के लिए बाईपास रोड हेतु जल्द प्रस्ताव बनाने के लिए निर्देशित किया। अमरकंटक में चलाए गए अतिक्रमण विरोधी अभियान की मुख्यमंत्री द्वारा प्रशंसा की गई और यहां के बराती क्षेत्र में जो हितग्राहियों को आवास के लिए स्थान आवंटित किए गए हैं वहां जल्द आवास बनवाए जाने के लिए निर्देशित किया गया। इसी तरह जिला कलेक्टर को जिले के शहरी क्षेत्र में जहां आवास योजना का कार्य जमीन को लेकर लंबित है को समझाने के लिए निर्देशित किया। जन सेवा अभियान की समीक्षा के दौरान कलेक्टर द्वारा मुख्यमंत्री को बताया गया कि 11 हजार से अधिक आवेदन पहुंचे हैं जिसमें से 9600 मामलों का निराकरण 221 शिविर लगाकर कर दिए गए हैं। एक जिला एक उत्पाद की समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री के सवाल हमें डेढ़ साल में क्या काम किया इसका आउटपुट कलेक्टर द्वारा बताया गया कि कोदो और टमाटर उत्पाद का चयन या गया है।कोदो का वर्तमान में 33 क्विंटल का उत्पादन किया जा रहा है पौधों के लिए प्रसंस्करण इकाई लगाई जा चुकी है टमाटर के लिए दो इकाई लगाने की प्रक्रिया चल रही है। विद्युत विभाग की समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री ने जिले में कितने घंटे बिजली की आपूर्ति हो रही है जानकारी मांगी शिकायतों के संबंध में 165 की जानकारी दी गई जिसमें पुष्पराजगढ़ क्षेत्र में सबसे ज्यादा शिकायतें थी जिस पर मुख्यमंत्री ने इन सभी शिकायतों का निराकरण जल्द किए जाने विभाग के अधिकारियों को कहा। पोषण आहार मामले की जानकारी लेते हुए मुख्यमंत्री ने कहां की गुणवत्ता युक्त पोषण आहार आंगनवाड़ी केंद्रों में समय पर पहुंचे इसकी निगरानी की जाए। अधिक से अधिक लोगों एवं जनप्रतिनिधियों को आंगनवाड़ी गोद दिलाए जाने ध्यान दिया जाए। समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री ने कलेक्टर को कहा कि जिस नगर पालिका क्षेत्र में सीएमओ नहीं है वहां पद रिक्त ना रहे। जहां सीएमओ नहीं है वह तुरंत नियुक्ति की जाए इसके लिए प्रभार भी दूसरों को दिया जा सकता है।अनूपपुर शहर में बन रहे फ्लाईओवर ब्रिज की भी जानकारी मुख्यमंत्री ने समीक्षा के दौरान ली और जिला कलेक्टर से कहा कि समय सीमा में कार्य को पूरा कराए जाने लगातार मॉनिटरिंग की जाएं। अनूपपुर जिले में कानून व्यवस्था पर प्रशंसा जताई। इस मौके पर प्रशासनिक अधिकारी मौजूद रहे। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 September 2022

anuppur, Tractor seized ,while illegal, mining of sand

अनूपपुर। जैतहरी थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम चोरभठी स्थित तिपान नदी बेल घाट पर अवैध रेत का परिवहन करते हुए पुलिस ने एक ट्रैक्टर को जब्त करते किया है। पुलिस ने ट्रैक्टर चालक केमल सिंह गोड (21) पुत्र शंकर सिंह गोड निवासी ग्राम सिंघौरा बडका टोला व मालिक विजय सिंह राठौर पुत्र बोधराम राठौर निवासी ग्राम चोरभठी के खिलाफ धारा 379, 414 ताहि एवं 4/21 खान खनिज अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया है। जानकारी के अनुसार शुक्रवार की दोपहर मुखबिर से सूचना मिली की ग्राम चोरभटी स्थित तिपान नदी बेलघाट से रेत की चोरी कर ट्रैक्टर क्रमांक एमपी 65 एए 4301 के माध्यम से ग्राम चोरभठी की ओर जा रहा है। जहां सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने उक्त ट्रैक्टर ट्रॉली को रोकते हुये ट्रैक्टर चालक केमल सिंह गोड़ से ट्रैक्टर में लोड रेत से संबंधित दस्तावेजों की मांग की गई। चालक द्वारा मौके पर कोई भी दस्तावेज नही दिखाया गया तथा पूछने पर बताया कि उसने ट्रेक्टर मालिक विजय सिंह राठौर के कहने पर ट्रैक्टर में रेत लोडकर परिवहन कर रहा था। पुलिस ने ट्रैक्टर को जब्त कर थाना परिसर में खड़ा कराते हुये ट्रैक्टर चालक व मालिक के खिलाफ मामला दर्ज कर मामले को विवेचना में लिया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  15 April 2022

anuppur, Most expensive ,petrol and diesel, MP in Anuppur

अनूपपुर। पेट्रोल और डीजल की कीमतों में एक बार फिर इजाफा किया गया है। राष्ट्रीय स्तर पर पेट्रोल और डीजल के दाम 80 पैसे प्रति लीटर बढ़े हैं। इस तरह पांच दिन में पेट्रोल और डीजल की कीमत में 3.20 रुपये की बढ़ोतरी हो चुकी है। अनूपपुर में प्रदेश का सबसे महंगा पेट्रोल और डीजल की कीमत है।   मध्यप्रदेश में 11 दिन में दाम ढाई से 3 रुपये प्रति लीटर तक बढोतरी हुई हैं। वहीं प्रदेश में सबसे महंगा पेट्रोल-डीजल अनूपपुर में बिक रहा है। जहां शनिवार को एक लीटर पेट्रोल की कीमत 113.11 रुपये और डीजल की कीमत 96.34 रुपये प्रति लीटर पहुंच गई है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 March 2022

anuppur, Car split , two after colliding, tree, three killed

अनूपपुर। जिला मुखायलय से नर्मदा दर्शन के लिए अमरकंटक जा रहे लोगों की तेज रफ्तार कार रविवार सुबह राजेन्द्रग्राम थाना क्षेत्र में एक पेड़ से टकरा गई। हादसा इतना भीषण था कि कार दो टुकडों में बंट गई और उसमें सवार तीन लोगों की मौके पर मौत हो गई, जबकि दो लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को अस्पताल पहुंचाया। वहीं, मृतकों के शवों को पोस्टमार्टम के लिएभेजकर मामले की जांच शुरू की। हादसे पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दुख व्यक्त किया है। जानकारी के अनुसार, अनूपपुर के श्रीवास्तव परिवार ने नई कार खरीदी थी। रविवार को परिवार के लोग दोस्तों के साथ कार की पूजा करवाने के लिए अमरकंटक के लिए निकले थे। सुबह करीब नौ बजे तेज रफ्तार कार राजेंद्र ग्राम थाना के करौंदी तिराहे के पास पेड़ से टकरा गई। दुर्घटना इतनी जबरदस्त थी कि पेड़ से टकराने के बाद कार दो हिस्सों में बट गई। राजेंद्र ग्राम थाना प्रभारी नरेंद्र पाल सिंह ने बताया कि अनूपपुर से नर्मदा दर्शन के लिए अमरकंटक जा रहे लोगों की कार रविवार को दुर्घटनाग्रस्त हो गई। हादसे में कार सवार 19 वर्षीय वर्षा श्रीवास्तव पुत्री दिनेश श्रीवास्तव निवासी सोन मौहरी, 24 वर्षीय सुबोध श्रीवास्तव पुत्र जमुना श्रीवास्तव निवसी शहडोल एवं मनु सिंह निवासी कोतमा की मौंके पर ही मृत्यु हो गई। वहीं, 22 वर्षीय सौरभ शर्मा पुत्र बिहारी लाल शर्मा एवं 22 वर्षीय दिव्यांशु श्रीवास्तव पुत्र रामप्रकाश श्रीवास्तव दोनों निवसी अनूपपुर गंभीर रूप से घायल हुए हैं, जिन्हें राजेन्द्रग्राम के स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया हैं। यह दोनों कार में सामने बैठे थे। घटना के समय कार का एयर बैंग खुलने से दोनों की जान बच गई। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट के माध्यम से सड़क दुर्घटना में 3 नागरिकों के दुःखद निधन पर शोक व्यक्त किया है। उन्होंने ईश्वर से दिवंगत आत्माओं को शांति, शोकाकुल परिजनों को आघात सहने की शक्ति व घायलों को शीघ्र स्वास्थ्य लाभ प्रदान करने की प्रार्थना की है। वहीं, गृह मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा ने ट्वीट किया है कि अनूपपुर जिले के राजेन्द्रग्राम में सड़क दुर्घटना में तीन लोगों के निधन का दुखद समाचार मिला है। ईश्वर से प्रार्थना है कि दिवंगत आत्माओं को शांति दे और शोकाकुल परिजन को यह गहन दुख सहन करने की शक्ति प्रदान करे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 March 2022

  patient cot

खटिया में महिला मरीज को ले जाना पड़ा अस्पताल सड़क नहीं होने की वजह से नही आती हैं एंबुलेंस    हम यूं ही नहीं कहते एमपी अजब है  | वाकय गजब है |  विकास के बड़े बड़े दावों की पोल खोलती तस्वीरें अनूपपुर से सामने आई है | खाल्हे धबई गाँव में आज भी सड़क और एम्बुलेंस के अभाव में अस्पताल तक जाने के लिए  मरीज को खटिया में लादकर ले जाना पड़ता है  | बताया जा रहा है की इस गाँव को राजस्व ग्राम  का दर्जा मिला हुआ है |  इसी वजह से जिम्मेदार सड़क निर्माण के लिए  इसकी टोपी उसके सर डालते रहते हैं  |  ये तस्वीरें प्रदेश  को शर्मशार कर देने वाली तस्वीरें हैं |  ये तस्वीरें उस भरोसे को भी तार तार करती हैं  |  जो नेता चुनाव के वक्त जनता से  करते हैं | मामला अनूपपुर जिले के पुष्पराजगढ़ के  खाल्हे धवई गांव का  है | जहाँ सड़क न होने की वजह से एक महिला मरीज को उनके परिवार के लोग खटिया में अस्पताल ले गए | बताया जा रहा है की महिला की हालत खराब हो रही थी  |  जिसके बाद महिला की हालत बिगड़ती  देख परिजनों ने खाट पर ही महिला को लिटाकर कंधों के सहारे मुख्य सड़क तक ले जाने का निर्णय लिया  | और 4 किमी कीचड़ भरे रास्ते से महिला को खाट में लादकर मुख्य मार्ग तक ले गए | . लेकिन  जब वे  मुख्य मार्ग तक पहुंचे तो वहां भी उन्हे एंबुलेंस नसीब नहीं हुई।   और वो सवारी ऑटो में महिला को बैठा क़र प्राथमिक स्वस्थ केंद्र बेनीबारी ले गए | . दरअसल इस गांव की खराब सड़क के कारण कोई भी मेडिकल सुविधा इस गांव तक नहीं पहुंच पाती है  | यही कारण हैं कि इस गांव के लोगों को एंबुलेंस की सुविधा को लेने के लिए भी घर से 4 किमी पैदल चलकर मुख्य मार्ग तक आना पड़ता है  |   मरीज मजबूरी में जान जोखिम में डालकर भगवान भरोसे अस्पताल पहुंचते  हैं |  लेकिन जिम्मेदार ऐ सी  में बैठकर कागजों पर प्रदेश का विकास करते हैं |  ये शर्म की बात है की आजादी के इतने सालों बाद भी शासन लोगों को मूलभूत सुविधाएं देने में असमर्थ है  | बताया ये भी जा रहा है की राजस्व ग्राम का दर्जा न होने के कारण इस गाँव में  सड़क नहीं बनाई गई  | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 September 2021

 Bisahulal Singh

बीजेपी नेताओं की तुलना महाकाल से की   मध्यप्रदेश के मंत्री बिसाहूलाल सिंह की चर्चा उनके काम से कम और उटपटांग बोलने से ज्यादा होती है |  इस बार बिसाहूलाल सिंह ने बीजेपी नेता उच्च शिक्षा  मंत्री मोहन यादव  की तुलना भगवान् महाकाल से कर दी है | बिसाहूलाल सिंह  का कहना है  इन  नेताओं के दर्शन कर लो तो भगवन महाकाल के दर्शन हो जायेंगे  |   मंत्री  बिसाहुलाल सिंह  ने भगवान्  बाबा महाकाल  को लेकर एक घटिया बयान दिया और  मंत्री मोहन यादव  की तुलना भगवान् महाकाल से कर दी | बिसाहूलाल इससे पहले भी  उटपटांग बोलने के कारन चर्चाओं में रहे हैं | निर्माण कार्यों का शिलान्यास करते हुए बिसाहूलाल सिंह ने कहा मेरे पास लोग उज्जैन जाने के लिए गाडी मांगने आते हैं  | आज उज्जैन के विधायक उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव यहाँ हैं इनके दर्शन कर लो तो महाकाल के दर्शन हो जायेंगे |  हिन्दू संगठनों ने बिसाहूलाल सिंह के इस बयान पर ऐतराज जताया है  | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 July 2021

  Existence of ramghat

नही बचा एक बूँद पानी ,चारागाह बना रामघाट   व्यवस्था नहीं सुधारे जाने पर आंदोलन की चेतावनी   अनूपपुर जिले की  पवित्र नगरी और नर्मदा नदी  का उदगम स्थल अमरकंटक  इन दिनों अपने अस्तित्व से जूझ रहा  है |  महीनों पूर्व टूट चुके डैम के कारण मां नर्मदा के उदगम स्थल में मौजूद पानी समाप्त हो चुका है |  रामघाट में शासन और प्रशासन की  अनदेखी के चलते यहाँ पर अब तक कोई कार्यवाई नहीं की गई है |  अमरकंटक में देशभर से श्रद्धालु यहाँ के  कुंड और नालों में स्नान करने आते हैं | रामघाट में जहां एक समय हजारों लीटर पानी से मां नर्मदा का  उदगम स्थल  लबालब दिखाई देता था  | वही यह स्थान अब पूरी तरह सूखा और चारागाह के रूप में दिखाई देने लगा है |  यहाँ आने वाले श्रद्धालु महज सूखे नाले को देखकर लौट  रहे हैं  | कारण जो भी हो लेकिन शासन और प्रशासन ने हमेशा इसकी अनदेखी ही की  | नगर परिषद अमरकंटक में बीते 3 महीने में चार सीएमओ को प्रभार मिल चुका है  | उसके बाद भी ना तो यहाँ सुंदरता दिखाई दे रही है  | और न ही इसकी व्यवस्था ठीक ढंग से की गई |  रामघाट में आज एक बूंद पानी  नहीं बचा है |  जिसको लेकर नगर परिषद अध्यक्ष  प्रभा पनारिया एवं उपाध्यक्ष रामगोपाल द्विवेदी के द्वारा  व्यवस्था सुधरने की मांग की गई है  ..  और कहा गया है की अगर अगर समय रहते मां नर्मदा के पावन धरा  पर ध्यान नहीं दिया गया तो  वह आंदोलन के लिए विवश होंगे  | उन्होंने कहा कि हमारे द्वारा कलेक्टर से लेकर मुख्यमंत्री तक इस अव्यवस्था को लेकर पत्र दिया गया है |  उसके बाद भी ने इस और  ध्यान नहीं दिया  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 December 2020

 Narmada Festival

विश्व पर्यटन के मानचित्र पर  लाने का प्रयास    31 जनवरी से 2 फरवरी तक अमरकंटक में जिला प्रशासन नर्मदा महोत्सव का आयोजन  कर रहा है | 31 जनवरी को मुख्यमंत्री इस महोत्सव का  उद्धाटन करेंगे  | 1 फरवरी को नर्मदा जयंती महोत्सव पर प्रसिद्ध गायिका मैथिली ठाकुर और 2 फरवरी को गायक कैलाश खेर प्रस्तुति देंगे |  नर्मदा जयंती महोत्सव को   भव्य रूप दिया जा रहा है ताकि अमरकंटक विश्व पर्यटन के मानचित्र पर अपनी जगह बना सके  |  नर्मदा जयंती के अवसर पर जिला प्रशासन ने नर्मदा महोत्सव का आयोजन कर पहली बार विभिन्न् कार्यक्रम आयोजित किए हैं  |  आयोजन की तैयारियों को लेकर डीआईजी शहडोल रेंज पीएस उईके ने आयोजन में प्रयुक्त होने वाले कार्यक्रम स्थलों की व्यवस्थाओं व सुरक्षा प्लान की समीक्षा की  | नर्मदा नदी क्षेत्र में मां के रूप में पूजी जाती हैं   |  महोत्सव के दौरान अमरकंटक नगरीय क्षेत्र में मां नर्मदा की  शोभा  यात्रा निकाली जाएगी |   पारंपरिक रूप से निकलने वाली इस   यात्रा  में इस बार स्थानीय जनजातीय समूहों के द्वारा लोकनृत्य आयोजित किए जाएंगे  | महोत्सव के दौरान मां नर्मदा मंदिर के साथ साथ प्रतिदिन मां नर्मदा तट रामघाट में भव्य महाआरती का आयोजन किया जाएगा  | 7 पुजारियों द्वारा एक साथ आरती की जाएगी | इस दौरान मां नर्मदा के जीवन पर आधारित लाइट एवं साउंड शो आयोजित किया जाएगा  | इसके साथ ही शहर के कई स्थलों में महाआरती के सीधे प्रसारण की व्यवस्था रहेगी |  108 कुंडीय यज्ञ क्षेत्र की समृद्धि खुशहाली व दैवीय आशीर्वाद के लिए महोत्सव के समापन दिवस में 108 कुंडीय यज्ञ का आयोजन किया जाएगा  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 January 2020

अनूपपुर

  नर्मदा सेवा यात्रा का डिण्डोरी जिले से अनूपपुर जिले में पहुँचने पर आज सुबह खाल्हे दूधी के शीशघाट आश्रम में आत्मीय स्वागत किया गया। नर्मदा नदी के उत्तर तट पर अनूपपुर जिले में यात्रा का यह पहला पड़ाव है। यात्रियों ने माँ नर्मदा की पूजा-अर्चना की और नर्मदा को स्वच्छ और प्रदूषणमुक्त बनाने का संकल्प लिया। स्थानीय ग्रामीणों ने लोक नृत्य एवं लोकगीतों के माध्यम से नर्मदा सेवा यात्रा में शामिल श्रद्धालुओं को भाव-विभोर कर दिया। मौसम ने भी यात्रियों को राहत दी। एक दिन पहले तेज धूप में दिन में चलना कठिन था किन्तु आज सबेरे से बादलों की आवाजाही से यात्रियों को सुहाना वातावरण मिला। आज सबेरे से ही खाल्हे दूधी नर्मदा तट पर उत्सव का माहौल था। नागरिक आपूर्ति मंत्री श्री ओमप्रकाश धुर्वे, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती ज्योति धुर्वे और अनूपपुर जिला प्रशासन की ओर से कलेक्टर श्री अजय शर्मा सहित जिले के वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों और जन-प्रतिनिधियों ने नर्मदा यात्रियों का स्वागत किया। विधायक श्री फुण्देलाल सिंह मार्को, जयसिंह नगर विधानसभा क्षेत्र की विधायक श्रीमती प्रमिला सिंह सहित शीशघाट आश्रम के प्रमुख संत नर्मदा दास भी स्वयं सारी व्यवस्थाएँ देख रहे थे।    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 May 2017

cm shivraj singh

  शिवराज ने अनूपपुर में किया जन-सभा को संबोधित   मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि उनका जीवन जनता की सेवा के लिये है और वे इसी भावना से काम करते रहेंगे। उन्होंने कहा कि 'नमामि देवि नर्मदे'' सेवा यात्रा के जरिये लोगों की समस्याओं के निराकरण के साथ ही नर्मदा के दोनों तट को शुद्ध, स्वच्छ और पर्यावरण की दृष्टि से समृद्ध बनाया जायेगा। श्री चौहान आज अनूपपुर में विशाल जन-सभा को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मेरा अगला जन्म भी जनता की सेवा के लिये ही समर्पित रहेगा। श्री चौहान ने कहा कि उन्होंने हमेशा नागरिकों के हितों, विशेषकर गरीब और अंतिम पंक्ति में खड़े व्यक्ति का उत्थान करने का प्रयास किया है। श्री चौहान ने 'नमामि देवि नर्मदे'' सेवा यात्रा का उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि अमरकंटक से शुरू होने वाली इस यात्रा के जरिये लोगों से संवाद करने के साथ ही नर्मदा के दोनों तट पर वृक्षारोपण, गंदगी रोकने के लिये फिल्टर प्लांट और माताओं-बहनों के लिये चेंजिंग-रूम बनवाये जायेंगे। उन्होंने बताया कि अगले विधानसभा सत्र में यह कानून बनाया जायेगा कि प्रदेश में जन्म लेने वाले हर व्यक्ति का अपना मकान और प्लाट हो। अनुसूचित जाति-जनजाति कल्याण मंत्री श्री ज्ञान सिंह और राज्य मंत्री श्री संजय-सत्येन्द्र पाठक ने भी सभा को संबोधित किया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 December 2016

anuppur shivraj singh

    कोतमा अन्त्योदय मेले में  शिवराज सिंह चौहान     मेरे जीवन की हर साँस जनता की खुशहाली एवं प्रदेश के विकास के लिए समर्पित है। मैं लगातार 11 वर्षों से जनता के सेवक के रूप में कार्य कर रहा हूँ। प्रदेश के विकास के लिए जनता को भी साथ चलना होगा। उन्हें बेटा-बेटी में फर्क नहीं करने, बच्चों की पढ़ाई पर ध्यान देने, वृक्षारोपण करने, प्रधानमंत्री जी के स्वच्छता अभियान में सक्रिय भूमिका निभाना होगा। मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने अनूपपुर जिले के कोतमा में आयोजित खंड स्तरीय अन्त्योदय मेला में यह बात कही।   मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि प्रदेश के युवा नौकरी के लिए परेशान नहीं हों, बल्कि वे स्वयं उद्यमी बनकर दूसरों को नौकरी दें। अनूपपुर जिले में इस दिशा में पहल करते हुए नए औद्योगिक क्षेत्र की स्थापना कदमटोला में की गई है। इसके लिए 229 लाख रुपए मंजूर किए गए हैं। श्री चौहान ने बताया कि मुख्यमंत्री युवा स्व-रोजगार योजना में 10 से 50 लाख रुपए तक का ऋण तथा युवा उद्यमी योजना में 10 लाख से 10 करोड़ रुपए तक का ऋण उपलब्ध करवाया जाता है, जिसकी गारंटी राज्य सरकार लेती है। साथ ही प्रशिक्षण तथा मार्गदर्शन दिया जाता है। बच्चों की पढ़ाई के लिये निःशुल्क पुस्तकें, साईकल, गणवेश, छात्रावास एवं छात्रवृत्ति एवं शिष्यवृत्ति की सुविधा दी जा रही है। हायर सेकेण्डरी में 60 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त करने वाली गांव की बेटियों को गांव की बेटी योजना का लाभ, 85 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को लैपटॉप और महाविद्यालय में पढ़ने वाले बच्चों को स्मार्ट फोन दिया जा रहा है।   मुख्यमंत्री ने कहा कि आगामी 15 अगस्त से प्रदेश सरकार द्वारा मेडिकल एवं इंजीनियरिंग की प्रतिष्ठित संस्थाओं में प्रवेश पाने वाले मेधावी गरीब छात्रों की सम्पूर्ण फीस सरकार द्वारा वहन करने की योजना संचालित की जाएगी। इस योजना में सभी वर्ग के विद्यार्थियों को लाभान्वित किया जाएगा। प्रदेश सरकार ने महिलाओं के सशक्तिकरण के अनेक कार्यक्रम संचालित किए हैं। स्थानीय निकायों में 50 प्रतिशत आरक्षण, शासकीय नौकरियों में वन विभाग को छोड़कर 33 प्रतिशत आरक्षण तथा शिक्षक भर्ती में 50 प्रतिशत आरक्षण महिलाओं के लिये किया गया है।   मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि प्रदेश में किसान कल्याण का महायज्ञ आगे भी चलता रहेगा। किसानों को शून्य प्रतिशत ब्याज दर पर कृषि ऋण, कृषि यंत्रों पर अनुदान, सिंचाई सुविधाओं का विस्तार, किसानों के उत्पादन की खरीदी, फसल बीमा योजना आदि सुविधाएँ दी जा रही है। मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन को जिले में 15-20 कलस्टर बनाकर लोक कल्याण शिविरों के माध्यम से जन-समस्याओं के निराकरण के लिये कहा। उन्होंने आयुक्त शहडोल संभाग को मनरेगा मजदूरी भुगतान का नया मॉडल तैयार कर क्रियान्वित कराने के निर्देश दिए।   नगरपालिका कोतमा को दी अनेक सौगात मुख्यमंत्री  चौहान ने नगरपालिका कोतमा में प्रधानमंत्री आवास योजना में गरीबों के मकान बनाने के लिये 40 करोड़ रुपए और कोतमा नगर में ड्रैनेज की व्यवस्था के लिये राशि उपलब्ध कराने की घोषणा की। कोतमा महाविद्यालय में अगले सत्र से पीजी कक्षाएँ प्रारंभ करने की भी घोषणा की। अन्त्योदय मेला में मुख्यमंत्री द्वारा विभिन्न शासकीय योजनाओं के हितग्राहियों को हितलाभ का वितरण किया गया।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 August 2016

anuppur

  कदमटोला में की नवीन औद्योगिक क्षेत्र विकास की घोषणा    मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में छोटे एवं मध्यम उद्योग स्थापित कर अधिक से अधिक युवाओं को रोजगार उपलब्ध करवाया जायेगा। उन्होंने कहा कि युवाओं को स्व-रोजगार स्थापित करने के लिये मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना और मुख्यमंत्री स्व-रोजगार योजना में समुचित ऋण उपलब्ध करवाया जायेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान  अनूपपुर में हितग्राही सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कदमटोला में 2 करोड़ 29 लाख की लागत से नये औद्योगिक क्षेत्र का विकास किये जाने की घोषणा की।   मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में अनुसूचित जाति-जनजाति और गरीबी रेखा से नीचे जीवन-यापन करने वाले व्यक्तियों को सस्ती दर पर खाद्यान्न उपलब्ध करवाया जा रहा है। उन्होंने कहा‍कि प्रदेश की धरती पर जिन व्यक्तियों ने जन्म लिया है, उन्हें रहने के लिये जमीन का टुकड़ा उपलब्ध करवाया जायेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकारी जमीन पर जो व्यक्ति घर बनाकर रह रहे हैं, उन्हें भी आवास के लिये स्थायी पट्टा दिया जायेगा।   गुणवत्तापूर्ण स्कूल शिक्षा की चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि शासकीय शालाओं में प्राथमिकता के साथ बुनियादी सुविधाएँ उपलब्ध करवायी गयी हैं। बच्चों को नि:शुल्क पाठ्य-पुस्तकें और गणवेश का वितरण किया जा रहा है। स्कूल के विद्यार्थियों को पढ़ने में सुविधा हो, उन्हें साइकिल उपलब्ध करवायी गयी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कक्षा-12 में 60 प्रतिशत अंक प्राप्त करने वाली गाँव की बेटी को 5000 रुपये की प्रोत्साहन राशि उपलब्ध करवायी जा रही है। जिन बच्चों ने कक्षा-12 में 85 प्रतिशत अंक प्राप्त किये हैं, उन्हें लेपटॉप और महाविद्यालयों में प्रथम वर्ष में प्रवेश लेने वाले विद्यार्थियों को स्मार्ट फोन मुहैया करवाया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र के प्रतिभाशाली बच्चों को मेडिकल, आईआईटी, इंजीनियरिंग और आईआईएम में पढ़ने के लिये पर्याप्त अवसर दिये जायेंगे। उनकी फीस राज्य सरकार भरेगी।   मुख्यमंत्री  चौहान ने कदमटोला में औद्योगिक विकास क्षेत्र की आधारशिला रखी। अनूपपुर नगर में ओव्हर-ब्रिज निर्माण और सर्व-सुविधायुक्त बस-स्टेण्ड बनाये जाने की घोषणा की।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 August 2016

एमपी में समर्थन मूल्य पर गेहूँ खरीदी

किसानों को 10 हजार करोड़ रुपये का भुगतान प्रदेश में खाद्य, नागरिक आपूर्ति विभाग द्वारा अब तक 9 लाख 63 हजार किसान से समर्थन मूल्य पर अब तक 70 लाख 69 हजार मीट्रिक टन गेहूँ की खरीदी की गई है। खरीदे गये गेहूँ के बदले किसानों को 10 हजार 19 करोड़ रुपये की राशि का भुगतान किया जा चुका है। किसानों को उनकी उपज के भुगतान के लिये भटकना न पड़े इसके लिये विभाग द्वारा खरीदी के बाद 7 दिन के भीतर उनके खातों में राशि जमा किये जाने की व्यवस्था की गई।उपार्जन केन्द्र पर किसान को अपनी उपज किस दिन लेकर पहुँचना है, इसके लिये एसएमएस से किसानों के मोबाइल पर सूचना दिये जाने की व्यवस्था की गई। विभाग ने इस वर्ष 128 गेहूँ उपार्जन केन्द्र और बढ़ाये हैं। इस वर्ष प्रदेश में 2,980 गेहूँ उपार्जन केन्द्र बनाये गये हैं। केन्द्र की संख्या बढ़ने से प्रत्येक केन्द्र पर 500 से 700 किसान ही पहुँचे, जिससे किसानों को अपनी उपज बेचने के लिये इंतजार नहीं करना पड़ा। इस वर्ष 25 मई तक समर्थन मूल्य पर 70 लाख 69 हजार मीट्रिक टन गेहूँ की खरीदी की गई। पिछले वर्ष 25 मई तक 63 लाख 41 हजार मीट्रिक टन गेहूँ की खरीदी गई थी।प्रदेश में समर्थन मूल्य पर गेहूँ खरीदी के लिये राज्य सरकार ने मध्यप्रदेश स्टेट सिविल सप्लाइज कार्पोरेशन एवं मध्यप्रदेश राज्य सहकारी विपणन संघ (मार्कफेड) को अधिकृत किया है। इस वर्ष किसानों से 1550 रुपये प्रति क्विंटल के भाव पर गेहूँ की खरीदी की जा रही है। केन्द्र सरकार ने समर्थन मूल्य पर गेहूँ खरीदी का 1400 रुपये प्रति क्विंटल का भाव निर्धारित किया है। राज्य सरकार द्वारा किसानों के हित में प्रति क्विंटल 150 रुपये की राशि बोनस के रूप में दी जा रही है। राज्य सरकार ने प्रदेश के 7 जिले भिण्ड, छतरपुर, उमरिया, रीवा, सतना, सीधी एवं सिंगरौली में किसानों से समर्थन मूल्य पर गेहूँ खरीद की तारीख को बढ़ाकर 30 मई किया है। शेष जिलों में 26 मई तक गेहूँ की खरीदी की गई।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

प्रदेश में  विकास के अहम फैसले

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई राज्य मंत्रि-परिषद की बैठक में प्रदेश में अधोसंरचना विकास को गति देने के लिये अहम फैसले हुए हैं। इनमें सड़क, बिजली, सिंचाई तथा नई तहसीलों के निर्माण और उनके लिये जरूरी अमले की मंजूरी जैसे निर्णय शामिल हैं।सिंचाई परियोजनाओं को प्रशासकीय मंजूरीमंत्रि-परिषद की बैठक में 340 करोड़ 62 लाख लागत की तीन नई सिंचाई परियोजनाओं को प्रशासकीय मंजूरी दी गई है। साथ ही 1130 करोड़ 50 लाख की लागत की तीन अन्य सिंचाई परियोजनाओं को पुनरीक्षित स्वीकृति दी गई है। जिन 3 नई सिंचाई परियोजनाओं को आज प्रशासकीय मंजूरी दी गई है, उनमें छिन्दवाड़ा जिले की मोहगाँव लघु सिंचाई परियोजना के लिये 83.33 करोड़, देवास जिले की दतूनी मध्यम सिंचाई परियोजना के लिये 174.55 करोड़ और छतरपुर जिले की तरपेड़ मध्यम सिंचाई परियोजना के लिये 82.74 करोड़ रुपये की मंजूरी शामिल है।।बीओटी योजना में तीन नये सड़क मार्गों का निर्माणबीओटी (टोल + एन्यूटी) योजना में मध्यप्रदेश रोड डेव्हलपमेंट कार्पोरेशन के माध्यम से 208.62 किलोमीटर लम्बे सड़क मार्गों के निर्माण के लिये 473 करोड़ 71 लाख रुपये की मंजूरी मंत्रि-परिषद ने दी है। इनमें उज्जैन सिंहस्थ बायपास मार्ग, दमोह-कटनी मार्ग और टीकमगढ़ (धजरई)-जतारा-पलेरा-नौगाँव मार्ग शामिल हैं। इन मार्गों का निर्माण आगामी दो से ढाई वर्ष की अवधि में पूरा किया जायेगा।उज्जैन में होने वाले सिंहस्थ की तैयारियों के सिलसिले में बीओटी (टोल + एन्यूटी) योजनांतर्गत 94.30 करोड़ लागत से 14.29 किलोमीटर लम्बे उज्जैन सिंहस्थ बायपास मार्ग के निर्माण के प्रस्ताव को राज्य मंत्रि-परिषद ने मंजूरी दी है। इसमें निजी निवेशकर्ता को टोल संग्रहण के अधिकार दिये जायेंगे तथा हर 6 माह में एन्यूटी की राशि का भुगतान भी किया जायेगा। यह देश में एक अभिनव योजना है। इस परियोजना में निर्माण अवधि सहित कन्सेशन अवधि 15 वर्ष है। एन्यूटी की राशि को निविदा का आधार रखा गया है। निजी निवेशकर्ता को सम्पूर्ण कन्सेशन अवधि में पूर्व निर्धारित मापदण्डों के अनुसार मार्ग का निर्माण करना होगा और उसके संधारण की जिम्मेदारी भी वहन करना होगी। इस पहल से एक उच्च कोटि का सड़क मार्ग दीर्घावधि तक आम लोगों को आवागमन सुविधाओं के लिये उपलब्ध होगा। इस मार्ग पर दूरी के अनुसार टोल दरें रहेंगी। प्रदेश में बनेंगी तीन नई तहसीलमंत्रि-परिषद ने मध्यप्रदेश में तीन नई तहसील बनाने का फैसला लिया है। इनमें पन्ना जिले में सिमरिया, सीधी जिले में बहरी और विदिशा जिले में पठारी शामिल हैं। प्रत्येक नई तहसील के लिये जरूरी अमले की व्यवस्था को भी मंजूरी दी गई।प्रदेश में दो नये पवित्र क्षेत्र घोषित करने का निर्णय आज लिया गया। इनमें नरसिंहपुर जिले के करेली तहसील के अंतर्गत राजस्व निरीक्षण मण्डल बरमान के अंतर्गत आने वाले छिड़ावा घाट (सीढ़ी घाट) स्थल, सतधारा घाट और दीपा का मंदिर क्षेत्र शामिल हैं। इसी तरह जबलपुर स्थित ग्वारीघाट को भी पवित्र क्षेत्र घोषित करने का निर्णय लिया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

Video
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved ©2023 MadhyaBharat News.