Since: 23-09-2009

  Latest News :
बाबा साहब के सपनों को साकार करने वाली सरकार चुनें : मायावती.   भाजपा का संकल्प पत्र देशवासियों की एंबीशन पूरा करने का मिशन- प्रधानमंत्री.   फिल्म अभिनेता सलमान खान के घर के बाहर फायरिंग.   इजरायल-ईरान संघर्ष के हालात पर भारत की दोनों पक्षों से संयम बरतने की अपील.   प्रधानमंत्री मोदी की गेमिंग क्षमता से प्रभावित हुए युवा गेमर्स ने उन्हें ‘नमो ओपी’ दिया नाम.   अगर नरेन्द्र मोदी प्रधानमंत्री नहीं होते तो राम मंदिर का निर्माण नहीं हो पाता : राज ठाकरे.   प्रदेश में सबसे ज्यादा अपराध आदिवासी वर्ग पर हो रहे हैं: जीतू पटवारी.   44 घंटे तक रेस्क्यू के बाद भी बोरवेल में गिरे मासूम की नहीं बच पाई जान.   भाजपा ने बाबा साहब के योगदान को नई पहचान दीः नरेन्द्र मोदी.   जिन लोगों ने बाबा साहब को संसद जाने से रोका वही उनके नाम पर वोट मांग रहे : मुख्यमंत्री डॉ. यादव.   रीवा में बोरवेल में गिरे मासूम को निकालने के लिए रेस्क्यू जारी.   मां के साथ खेत पर गई दो बहनें तालाब में डूबी.   सड़क दुर्घटना में दो सगे भाइयों समेत तीन युवकों की मौत.   मैनपाट में घर में लगी आग की चपेट में आकर तीन बच्चे जिंदा जले.   बसपा ने छग की तीन सीटों के लिए की उम्मीदवारों की घोषणा.   सरोना ट्रेचिंग ग्राउंड को 5 दिन के भीतर साफ करने का अल्टीमेटम.   कोरबा में स्कूल वैन दुर्घटनाग्रस्त सात घायल.   कांग्रेस उम्मीदवार कवासी लखमा पर तीन थानों में दर्ज हुई एफआईआर.  

सीहोर News


sehore,Many VIP, Rudraksh Mahotsav

सीहोर। जिला मुख्यालय के समीपस्थ चितावलिया हेमा स्थित निर्माणाधीन मुरली मनोहर एवं कुबेरेश्वर महादेव मंदिर में आगामी सात मार्च से होने वाले भव्य महोत्सव को लेकर कथा स्थल के भव्य परिसर में डोम लगाए जा रहे हैं। इसके अलावा प्रशासन भी यहां पर वीआईपी अतिथियों, साधु संतों के आगमन को लेकर तैयार है। हेलीकाप्टर से आने वालों के लिए पंडाल के पीछे हेलीपैड का निर्माण किया जा रहा है, यहां पर अतिथि उतरेंगे। जिसे लेकर व्यापक तैयारियां की जा रही हैं। रिहर्सल के माध्यम से बारीकियों से सुरक्षा इंतजामों की जांच की जा रही है।     विठलेश सेवा समिति के मीडिया प्रभारी प्रियांशु दीक्षित ने बताया कि रविवार को समिति के द्वारा शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में विभिन्न समितियों का गठन किया गया है। रुद्राक्ष महोत्सव का शुभारंभ गुरुवार से किया जाएगा। इसके अंतर्गत प्रतिदिन सुबह शिवलिंग का अभिषेक, दोपहर में कथा और रात्रि में सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। इस दौरान भजन गायक किशन भगत, कृष्ण चतुर्वेदी, नतिन बागवान, संजो बघेल, भगवान श्रीराम जन्म भूमि के संबंध में शुरू से अब तक का इतिहास बताने वाली टीम, मिहर जोशी, विवेक शर्मा सहित अन्य भजन गायक और कलाकार अपनी सुंदर प्रस्तुति प्रदान करेंगे।     उन्होंने बताया कि जिला प्रशासन के अधिकारियों ने कानून व शांति व्यवस्था तथा अन्य व्यवस्थाओं के लिए पुलिस बल की ड्यूटी की तैयारियां की है, इसके अलावा कुबेरेश्वरधाम पर पर्याप्त पार्किंग के लिए स्थान, वाहनों के आवागमन, बैरिकेटिंग, आने वाले श्रद्धालुओं की बैठक व्यवस्था, पेयजल, शौचालय सहित अन्य समुचित व्यवस्थाएं कराई जा रही है। जिससे श्रद्धालुओं को कोई दिक्कत नहीं हो।     उन्होंने बताया कि रविवार को कथावाचक पंडित प्रदीप मिश्रा हरियाण से लौटने के बाद धाम पर पहुंचे। इस मौके पर प्रशासनिक अधिकारियों के अलावा समितियों से चर्चा की। पंडित मिश्रा सोमवार को छत्तीसगढ़ के लिए रवाना हो जाएंगे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 March 2024

sehore, Flood of faith , Kubereshwar Dham

सीहोर। जिला मुख्यालय के समीपस्थ चितावलिया हेमा स्थित निर्माणाधीन मुरली मनोहर एवं कुबेरेश्वर महादेव मंदिर में इन दिनों आस्था का महाकुंभ लगा हुआ है। मंगलवार को प्रसिद्ध कथावाचक पंडित प्रदीप मिश्रा के निर्देशानुसार पंडित विनय मिश्रा सहित अन्य ने नेपाल से आए भक्तों के दल के साथ रुद्राक्ष का पौधा लगाया गया।   इसके अलावा मंदिर परिसर में विभिन्न प्रजाति के एक दर्जन से अधिक पौधों का रोपण किया व पौधरोपण करने से वातावरण में होने वाले फायदे बताते हुए उनकी रक्षा करने की बातें कही। सभी लोगों ने पौधारोपण कर पर्यावरण को सुरक्षित व स्वच्छ रखने का प्रयास किया जा रहा है। पंडित प्रदीप मिश्रा ने पौधारोपण करने के लिए प्रेरित करते हुए कहा कि हर व्यक्ति को अपने परिवार के सभी सदस्यों के नाम पर पौधे अवश्य लगाना चाहिए।   विठलेश सेवा समिति के मीडिया प्रभारी प्रियांशु दीक्षित ने बताया कि मंगलवार को सुबह धाम पर विधि-विधान से पूजा अर्चना के पश्चात शाम को बाबा की आरती की गई एवं कंकर शंकर वाले स्थान पर चंदन, रुद्राक्ष और शमी के पौधे का रोपण किया गया।   नेपाल से आए दल ने बताया कि रुद्राक्ष एक देववृक्ष है। यह जीवनरक्षक है। साथ ही इसका धार्मिक महत्व भी है। रुद्राक्ष के साथ ही अन्य पौधों का भी रोपण करना चाहिए। साथ ही पेड़-पौधों की रक्षा भी करनी चाहिए। यदि पेड़-पौधे नहीं होंगे तो धरती जीव विहीन हो जाएगी। न हवा चलेगी न वर्षा होगी। ऐसे में जीवन की कल्पना भी नहीं की जा सकती। पुराणों से लेकर धार्मिक अनुष्ठानों तक रुद्राक्ष का बहुत मान्यता है। रुद्राक्ष के अलग-अलग प्रकार होते हैं और इसे बहुत पवित्र माना जाता है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 February 2024

sehore,  Mahaprasad of Annakoot , Kubereshwar Mahadev

सीहोर। प्रतिवर्ष अनुसार इस वर्ष भी जिला मुख्यालय के समीपस्थ चितावलिया हेमा स्थित निर्माणाधीन मुरली मनोहर एवं कुबेरेश्वर महादेव मंदिर में गोपाष्टमी पर सोमवार को बृजधाम की झलक दिखाई दी। मंदिर परिसर में भव्य रूप से गोवर्धन सजाया और 56 भोग से गिरिराज की झांकी के समक्ष सजाए गए। यहां हजारों की संख्या में आए श्रद्धालुओं ने दर्शन के उपरांत महाप्रसादी ग्रहण की। 56 प्रकार के भोग में तीन प्रकार की खीर, अनेक प्रकार के भाजिया, एक दर्जन से अधिक मिठाइयों के अलावा औषधीय पकवान शामिल थे।       कथावाचक पंडित प्रदीप मिश्रा ने कुबेरेश्वर धाम पहुंचे श्रद्धालुओं के समक्ष महाआरती की और उसके पश्चात प्रसादी का वितरण किया। मंदिर परिसर में पिछले दो दिनों से भक्तों के आने का सिलसिला शुरू हो गया था। शनिवार और रविवार को शहर सहित आस-पास के सभी होटल, धर्मशाला में श्रद्धालु ठहरे हुए थे, वहीं सोमवार को करीब डेढ लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने प्रसादी ग्रहण की। सुबह 10 बजे से भोजन प्रसादी का क्रम आरंभ हुआ। इसके पश्चात मंदिर परिसर में बनी गौशाला में पंडित प्रदीप मिश्रा ने गौ माता की पूजा-अर्चना की और गोपाष्टमी के पर्व की सभी को बधाई भी दी।       परम्परानुसार गोपाष्टमी के अवसर पर कथावाचक पंडित प्रदीप मिश्रा सहित विठलेश सेवा समिति के पदाधिकारियों की मौजूदगी में मंदिर परिसर के विशाल हाल में अन्नकूट दर्शन का आयोजन किया गया और उसके पश्चात गौ माता एवं गोवर्धन नाथ की आरती के पश्चात बाबा गोवर्धन नाथ एवं कुबेरेश्वर महादेव का प्रसादी का वितरण किया गया। इस मौके पर हजारों की संख्या में श्रद्धालुओं ने प्रसादी ग्रहण की।       विठलेश सेवा समिति के मीडिया प्रभारी प्रियांशु दीक्षित ने बताया कि यहां पर समिति के कार्यकर्ताओं ने गिरिराज के समक्ष छप्पन प्रकार से अधिक व्यंजनों का भोग लगाया था। इस भोग में पोषक तत्वों वाली खाद्य सामग्री शामिल की गई। इनमें करीब एक दर्जन से अधिक प्रकार की विभिन्न प्रकार की मिठाइयों के अलावा इम्युनिटी को मजबूत करने वाली औषधीय सामग्री जैसे तुलसी, नारियल, अदरक, दही, पनीर, आंवला, पालक, मैथी, ड्राय फ्रूट्स, सभी प्रकार की मिश्रित सब्जी, पंचामृत, खीर, गुलाब जामुन, पेड़ा, मोहनथाल, हलवा, लड्डू धनिया पंजीरी, मूंग दाल हलवा, मालपुआ, रबड़ी, दाल चावल कढ़ी, खिचड़ी, मुरब्बा, ताजे फल और सूखे फल आदि के पकवान शामिल थे। वहीं श्रद्धालुओं के लिए विशेष प्रकार की शुगर फ्री मिठाई भी बनाई गई थी।       भगवान की पूजन के पश्चात विभिन्न मिश्रित सब्जियों, पूड़ी, कढ़ी, खीर, सेवा-नुक्ती आदि भोजन के अलावा प्रसादी का वितरण किया गया। इस भव्य अन्नकूट उत्सव में हजारों की संख्या में श्रद्धालुओं ने प्रसादी ग्रहण की। अन्नकूट महोत्सव में देश के कोने-कोने से आए श्रद्धालुओं ने गिरिराज के दर्शन किए।       इस मौके पर पंडित प्रदीप मिश्रा ने कहा कि श्रीकृष्ण को अन्नकूट का प्रसाद चढ़ाना विशेष रूप से फलदायी होता है। ऐसी मान्यता है कि गोवर्धन पूजा कृष्ण भगवान को 56 भोग चढ़ाने से माता अन्नपूर्णा की कृपा दृष्टि सदैव बनी रहती है और घर में कभी भी अन्न धन की कमी नहीं होती है।       उन्होंने बताया कि परमब्रह्म श्रीकृष्ण ने ब्रजवासियों को पकवान बनाते देखा। गोकुलवासियों को पूजा की तैयारियों में व्यस्त देख श्रीकृष्ण ने योशदा मैया से पूछा कि ब्रजवासी किसकी पूजा करने की तैयारी कर रहे हैं। जवाब मिला कि ब्रजवासी इंद्र देव की पूजा करेंगे। कान्हा की लीला में दूसरा सवाल आया। इंद्रदेव की पूजा क्यों, इस पर माता यशोदा बताया कि इंद्रदेव वर्षा करते हैं। अच्छी वर्षा अन्न की अच्छी पैदावार के लिए जरूरी है। इसी से गायों को चारा मिलता है। कन्हैया ने कहा कि वर्षा तो इंद्रदेव का कर्तव्य है। यदि पूजा ही करनी है तो हमें गोवर्धन पर्वत की पूजा करनी चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि हमारी गायें गिरिराज गोवर्धन पर चरती हैं। वहीं से फल-फूल, सब्जियां भी मिलती हैं। कान्हा का तर्क सुनकर ब्रजवासी इंद्रदेव को छोडक़र गिरिराज गोवर्धन की पूजा करने लगे। देवराज इंद्र ने कृष्ण लीला को अपमान समझा। बाद में भयंकर बारिश और जलप्रलय जैसे मंजर के बीच कान्हा ने गिरिराज गोवर्धन को उंगली पर धारण किया। लोगों ने परमावतार कृष्ण के दर्शन किए और इसी दिन से गोवर्धन पूजा की परंपरा शुरू हो गई। 56 भोग लगाने की परंपरा के कारण इसे अन्नकूट भी कहा जाने लगा। हमारे सनातन धर्म में अन्नकूट महोत्सव की प्रसादी का काफी महत्व है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 November 2023

sehore,Shivraj Singh ,filed nomination

सीहोर। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को बुधनी विधानसभा से भाजपा प्रत्याशी के रूप में अपना नामांकन फार्म जमा किया, इसके पहले मुख्यमंत्री चौहान अपने गृहग्राम जैत पहुंचे और अपने कुलदेवताओं की पूजा अर्चना की। इस अवसर पर उन्होंने नर्मदा मैया और सलकनपुर पहुँचकर माता बिजयासन देवी के दर्शन कर पूजा किया। तत्पश्चात रोड शो कर नामांकन भरने पहुचे।   नामाकंन फार्म जमा करने से पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मैं आज अपनी जन्मभूमि, कर्मभूमि, मातृभूमि, पुण्यभूमि की वो माटी जिसके आशीर्वाद से प्रदेश की जनता की सेवा का इतना काम कर पाया मैं आज वहाँ प्रणाम करने आया हूँ। अपने ग्रामवासियों की शुभकामनाएं और बुजुर्गों का आशीर्वाद लेकर आज मैं नामांकन फ़ॉर्म जमा करने जा रहा हूँ। उन्होंने कहा बुधनी की जनता ही मेरा परिवार है, ये ही शिवराज हैं, यहाँ के नागरिकों ने मुझे हमेशा प्रेम और स्नेह दिया है, उनके आशीर्वाद से ही आज मैं इस मुकाम पर हूँ की प्रदेश की सेवा कर पा रहा हूँ। यहाँ का चुनाव जनता ही लड़ेगी मैं तो वोट डालने आऊँगा। उन्होंने कहा हमें अभी बहुत काम करना है, इसलिए प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की सरकार जरूरी है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 October 2023

sehore,Trolley explodes ,driver burnt

सीहोर। जिले के आष्टा थाना अंतर्गत ग्राम भंवरा में नर्मदा पार्वती लिंक परियोजना के पाइप प्लांट के समीप परियोजना के काम में लगे एक ट्राले में गुरुवार सुबह अचानक आग लग गई। ट्राले में आग लगने के बाद कई विस्फोट भी हुए। हादसे में ट्राला चालक की जिंदा जलकर दर्दनाक मौत हो गई। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची। ट्रॉले में आग लगने का कारण फिलहाल अज्ञात है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।   जानकारी अनुसार पीर की दरगाह के समीप नर्मदा पार्वती लिंक परियोजना का काम चल रहा है। यहां परियोजना में परिवहन कर रहे ट्रांसपोर्ट कंपनी का एक ट्राला गुरुवार सुबह करीब आठ बजे भंवरा के पास बने डिपो से पाइप के परिवहन के लिए जा रहा था। इस दौरान अचानक ट्राले के केबिन में आग लग गई। इसके बाद ट्राले में एक के बाद एक कई ब्लास्ट भी हुए। आग इतनी तेजी से लगी कि ड्राइवर ट्राले के केबिन में ही फंसा रहा और बुरी तरह से जिंदा जल गया। आग लगने की सूचना मिलते ही आष्टा थाना के उपनिरीक्षक सीएल रैकवार टीम के साथ मौके पर पहुंचे। वहीं दमकल भी मौके पर पहुंची, लेकिन जब तक आग पर काबू पाया गया तब तक चालक की जलकर मौत हो चुकी थी। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक चालक ने ट्राले का कांच फोड़कर बाहर निकलने का प्रयास किया, लेकिन निकल नहीं पाया। उप निरीक्षक सीएल रैकवार के अनुसार मृतक की पहचान संदीप (28) पुत्र हरिनारायण गोस्वामी निवासी सांवरसिया राजगढ़ जिला के रूप में हुई है। वह राजस्थान की ट्रांसपोर्ट कंपनी में ड्राइवर था। ट्राले में अनेक बार विस्फोट भी हुए, जो जांच का विषय है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  27 July 2023

sehore, Bus full of devotees, Kubereshwar Dham

सीहोर। सीहोर के नजदीक आष्टा में बुधवार सुबह एक यात्री बस अनियंत्रित होकर पलट गई। बस गुजरात के श्रद्धालुओं से भरी थी, जो कि सीहोर के कुबेरेश्वर धाम दर्शन के लिए जा रहे थे। हादसे में करीब 15 लोग घायल हुए हैं। हादसे की सूचना पाकर आष्टा और पार्वती थाना पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। घायलों को उपचार के लिए आष्टा के सिविल अस्पताल पहुंचाया गया है।   जानकारी अनुसार घटना बुधवार सुबह करीब साढ़े आठ बजे की है। पार्वती थाना क्षेत्र अंतर्गत भोपाल-इंदौर एक्सप्रेस हाईवे पर आष्टा के पास चाचरसी जोड़ के पास गुजरात से सीहोर कुबेश्वर धाम जा रही यात्री बस क्रमांक जीजे21 डब्ल्यू 4777 के सामने अचानक एक बाइक आ गई। बाइक सवार को बचाने के चक्कर के चालक नियंत्रण खो बैठा और बस अनियंत्रित होकर सड़क के किनारे पलट गई। बस पलटते ही चीख पुकार मच गई। लोगों ने तुरंत पुलिस को सूचना दी। इस हादसे में बस में सवार करीब 15 लोगों को चोटें आई हैं। सूचना मिलते ही सूचना मिलने पर थाना पार्वती से पुलिस बल मौके पर पहुंचा और बचाव कार्य शुरू किया। घायलों को सिविल अस्पताल आष्टा पहुंचाया गया है। एसडीओपी मोहन सारवान भी घटनास्थल पर पहुंचे और हालात का जायजा लिया।   एसडीओपी ने बताया कि एक बाइक को बचाने के प्रयास में बस अनियंत्रित होकर पलट गई। आष्टा निवासी बाइक सवार पंकज दुमाने गंभीर रूप से घायल हाे गया। उसे सीहोर रेफर किया गया है। बाकी घायलों का सिविल अस्पताल में ही उपचार चल रहा है। वहीं घायलों में बस यात्री कल्पना बेन वरेली गुजरात, रंजन बेन, चंद्रिकाबेन, असद बेन, आनंद बेन, भावनाबेन, ऐतल बेन, तनुजा बेन, राहुल भाई, रंजन बेन और शीला बाई घायल हुए हैं। सभी यात्री गांव वरेली तहसील मांडवी जिला सूरत गुजरात के रहने वाले हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 June 2023

bhopal, Innocent ,borewell

भोपाल। मध्य प्रदेश के सीहोर जिले में मंगलवार दोपहर 1ः00 बजे बोरवेल के खुले गड्ढे में गिरी ढाई साल की बच्ची को निकालने के लिए 18 घंटों से बचाव अभियान जारी है। 10 से ज्यादा जेसीबी और पोकलेन की मदद से पांच फीट दूरी पर समानांतर गड्ढा खोदा जा रहा है। एनडीआरएफ और एसडीआरफ की टीम लोकल पुलिस प्रशासन के साथ रेस्क्यू ऑपरेशन में जुटी हुई है। यह इलाका पथरीला है। बुधवार सुबह तक 28 फीट खुदाई ही हो पाई है।     एसडीएम अमना मिश्रा ने बताया कि मंगलवार दोपहर में जिले के ग्राम मुंगावली निवासी राहुल कुशवाह की ढाई साल की पुत्री सृष्टि पास ही खेत में खेलते समय खुले बोरवेल के गड्ढे में गिर गई थी। इसकी सूचना मिलते ही जिला प्रशासन ने युद्धस्तर पर रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया। उन्होंने बताया कि बोरवेल के अंदर पाइप के जरिए ऑक्सीजन पहुंचाई जा रही है। एंबुलेंस सहित अन्य आवश्यक उपकरण घटनास्थल पर उपलब्ध हैं। प्रभारी कलेक्टर आशीष तिवारी, एसपी मयंक अवस्थी, डीआईजी मोनिका शुक्ला सहित अन्य अधिकारी घटनास्थल पर मौजूद हैं।   जिला पंचायत सीईओ आशीष तिवारी ने बताया कि करीब 300 फीट गहरे बोरवेल में गिरी बच्ची 29 फीट नीचे फंसी थी। बुधवार सुबह तक वह 50 फीट नीचे जा पहुंची है। फिलहाल बच्ची ने मूवमेंट करना बंद कर दिया है। खुदाई में नीचे मिले पत्थर बहुत ही कठोर हैं। उन्हें तोड़ने के लिए पोकलेन के साथ ड्रिल मशीन का इस्तेमाल किया जा रहा है। इसीलिए रेस्क्यू में तेजी नहीं आ पा रही है। बच्ची को हुक के माध्यम से भी ऊपर खींचने का प्रयास किया जा रहा है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 June 2023

sehore, , open borewell  ,Sehore district

सीहोर। मध्य प्रदेश के सीहोर जिले में ग्राम बड़ी मुंगावली निवासी राहुल कुशवाहा की ढाई वर्षीय बेटी सृष्टि मंगलवार दोपहर घर के पास एक खेत में कुछ ही दिन पहले खोदे गए बोरवेल के खुले गड्ढे में गिर गई। सृष्टि अपने मां रानी के सामने ही बोर में गिरी और उसी ने इसकी सूचना अपने पति को दी जिसके बाद प्रशासन को सूचना दी गई। बच्ची के बोरवेल में गिरने से आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं और रेस्क्यू शुरू कर दिया गया है। राहत एवं बचाव अभियान युद्ध स्तर पर चलाया जा रहा है। सीहोर कलेक्टर डॉ. प्रवीण सिंह ने बताया कि ढाई साल की बच्ची सृष्टि पुत्री राहुल कुशवाह निवासी ग्राम मुंगावली मंगलवार को दोपहर में बोरवेल में गिर गई। सूचना मिलते ही जिला प्रशासन ने रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कर दिया है। एसडीआरएफ की टीम तुरंत घटनास्थल पर पहुंच गई और सृष्टि को बोरवेल से निकालने की कार्यवाही प्रारंभ कर दी है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट के माध्यम से कहा कि सीहोर के ग्राम मुंगावली में मासूम बेटी के बोरवेल में गिरने की दुखद सूचना प्राप्त हुई। एसडीआरएफ की टीम तत्काल घटनास्थल पर पहुंच गई और बेटी को बोरवेल से निकालने की कार्यवाही प्रारंभ कर दी है। मैंने स्थानीय प्रशासन को आवश्यक कदम उठाने के निर्देश दिये हैं। मैं भी सतत प्रशासन के संपर्क में हूं। रेस्क्यू टीम बच्ची को सुरक्षित बचाने के लिए प्रयासरत है। बिटिया की कुशलता की प्रार्थना करता हूं। बताया जा रहा है कि ढ़ाई साल की बच्ची सृष्टि 300 फीट गहरे बोरवेल में 29 फीट नीचे फंसी हुई हैं। मौके पर पहुंची चार जेसीबी और 6 पोकलेन की मदद से पांच फीट दूरी पर समानांतर गड्ढा खोदा जा रहा है। मौके पर पुलिस अधीक्षक मयंक अवस्थी और एडीएम ब्रजेश सक्सेना भी मौजूद हैं। एसडीआरएफ की टीम रेस्क्यू में जुटी है। बच्ची तक ऑक्सीजन पहुंचाई जा रही है। उसके मूवमेंट पर नजर रखने के लिए बोरवेल के अंदर इंस्पेक्शन कैमरा भी डाला गया है। एंबुलेंस और मेडिकल टीम भी वहां तैनात है। प्रशासनिक अमला भी मौके पर पहुंच गया है। चार थाना प्रभारी समेत बड़ी संख्या में पुलिस बल भी मौके पर पर मौजूद है। सृष्टि की मां रानी कुशवाह ने बताया कि उनके घर से करीब 50 मीटर की दूरी पर गोपाल पुत्र नन्नू लाल ने करीब तीन माह पहले ही बोर करवाया था जिसमें पानी नहीं निकला तो उनहोंने उसे ऐसे ही खुला छोड़ दिया। बच्चे रोज बाहर खेलते हैं। हम सावधानी रखते हैं लेकिन आज सृष्टि खेलते-खेलते वहां पहुंच गई और बोरवेल में गिर गई। सूचना मिलते ही प्रशासनिक और पुलिस का अमला मौके पर पहुंचा और बचाव कार्य शुरू किया है। घटना के बाद बच्ची की मां रानी का बुरा हाल है। वह बार-बार गड्डे की ओर देखते हुए बेटी की सलामती के लिए दुआ कर रही है। बच्ची की मां ने बताया कि वह खेत पर बने घर में कंडे बना रही थी। वहां से चालीस-पचास फीट की दूरी पर ही बोरवेल खुला पड़ा था। उसकी बच्ची कब खेलते-खेलते जाकर बोरवेल में गिर गई, उसे पता ही नहीं चला। जब बच्ची आसपास नहीं दिखी तो रानी ने खोजबीन शुरू की। तब जाकर उसे घटना के बारे में पता चला। एसडीएम अमन मिश्रा का कहना है कि राहत एवं बचाव कार्य जारी है। हम जल्द ही बच्ची को सुरक्षित निकाल लेंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 June 2023

sehore,Three sisters,Ganga Dussehra

सीहोर। गंगा दशमी पर मंगलवार को नर्मदा नदी में स्नान के लिए रायसेन जिले से आए एक परिवार की तीन बहनें गहरे पानी में चली गईं। उनमें से एक की डूबने से मौत हो गई, तो वहीं दूसरी युवती को गंभीर अवस्था में नर्मदापुरम रेफर किया गया है। तीसरी युवती की हालत सामान्यन बताई जा रही है। यह परिवार रायसेन जिले के मानपुर से आंवलीघाट स्नान के लिए आया था। रेहटी थाना पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच में लिया है। जानकारी के अनुसार गंगा दशहरा के पर्व पर रायसेन जिले के मानपुर गांव से नंदकिशोर लोधी अपने परिवार के साथ नर्मदा स्नान करने आए थे। वे सुबह अपने गांव से आंवलीघाट पहुंचे थे। उनके साथ में उनके छोटे भाई का परिवार भी था। नर्मदा स्नान के दौरान परिवार की तीन युवतियां सलोनी पिता नंदकिशोर लोधी उम्र 15 वर्ष, सिमरन पिता नंदकिशोर लोधी उम्र 12 वर्ष व रागिनी उम्र 16 वर्ष एक साथ स्नान करने के लिए नदी में उतरीं। थोड़ी देर बाद तीनों गहरे पानी में चली गई। तीनों को डूबता देखकर वहां पर हड़कंप मच गया। इसके बाद लोगों की मदद से सलोनी व रागिनी को तो बचा लिया गया, लेकिन सिमरन पिता नंदकिशोर लोधी उम्र 12 वर्ष की डूबने से मौत हो गई। घटना के बाद तीनों को रेहटी स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया। यहां से सलोनी उम्र 15 वर्ष को गंभीर हालत में नर्मदापुरम रेफर किया गया है, तो वहीं रागिनी की हालत सामान्य् बताई जा रही है। घटना की सूचना मिलने के बाद रेहटी थाना पुलिस की टीम आंवलीघाट पहुंची एवं कार्रवाई शुरू की। गौरतलब है कि नर्मदा नदी में फिलहाल ज्यादा गहरा पानी नहीं हैं, लेकिन अवैध रेत माफिया के कारण अब लगातार हादसे हो रहे हैं। रेत माफियाओं ने नदी में बड़े-बड़े गड्ढे कर दिए हैं। जहाजपुर में तीन युवकों के डूबने का मामला अभी ठंडा भी नहीं हुआ था कि अब आंवलीघाट नर्मदा घाट पर हादसा हो गया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 May 2023

sehore, Youth attacked , killed with an ax

सीहोर। शहर कोतवाली क्षेत्र में कब्रला पुल के पार ईंट भट्टे पर शुक्रवार को एक व्यक्ति ने कुल्हाड़ी से हमला कर एक युवक की बेरहमी से हत्या कर दी गई। आरोपित ने युवक के शरीर के कई टुकड़े कर दिए। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर मामले की जांच शुरू की। पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है।     पुलिस के अनुसार, मोतीबाबा मंदिर रोड पर रहने वाले सूरज सिंह कुशवाह पुत्र बिहारी लाल शुक्रवार को ईंट खरीदने के लिए कर्बला पुल के पास भट्टे पर गया था। बताया जाता है कि जैसे ही, वह ईंट भट्टे के पास पहुंचा, सामने से सुरेंद्र पुत्र गोविंद कुशवाह वहां आया और कुल्हाड़ी से सूरज के गले पर इतनी जोर से वार किया कि उसका सिर धड़ से अलग हो गया। आरोपित के सिर पर इस कदर खून सवार था कि उसने शरीर पर कई वार किए, जिससे युवक के शरीर के कई टुकड़े हो गए। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। यहां से आरोपित को कुल्हाड़ी समेत गिरफ्तार कर लिया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 May 2023

sehore, Another death, Kubereshwar Dham

सीहोर। जिले में प्रसिद्ध कथावाचक पंडित प्रदीप मिश्रा के कुबेरेश्वर धाम में बुधवार सुबह एक और मौत हो गई। भोपाल के अजाक थाने में पदस्थ हेड कॉन्स्टेबल समर सिंह भदौरिया की यहां ड्यूटी लगाई गई थी। इसी दौरान उन्हें हार्ट अटैक आ गया। कुबेरेश्वर धाम में गत 16 फरवरी को शुरू हुए रुद्राक्ष महोत्सव और शिवपुराण कथा में अब तक छह लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें एक बच्चा, तीन महिलाएं और दो पुलिसकर्मी शामिल हैं।     पुलिस अधीक्षक निरंजन राजपूत ने बताया कि बुधवार सुबह हेड कॉस्टेबल समर सिंह भदौरिया (59) की मौत हो गई है। वह भोपाल के थाना अजाक में पदस्थ थे। कुबेरेश्वर धाम ड्यूटी पर आए हुए थे और पीजी कॉलेज में रुके थे। बुधवार प्रातः करीब 08 बजे अचानक उन्हें सीने में तेज दर्द उठा। सहकर्मी तुरंत उन्हें लेकर अस्पताल पहुंचे, जहां डाक्टर ने चेक करने के बाद उन्हें मृत घोषित कर दिया। कुबेरेश्वर धाम में पंडित प्रदीप मिश्रा द्वारा सुनाई जा रही शिव महापुराण कथा का आज अंतिम दिन है।   इससे पहले सोमवार, 20 फरवरी को पंडित प्रदीप मिश्रा की कथा में इंदौर से ड्यूटी करने के लिए सीहोर पहुंचे प्रधान आरक्षक श्याम मीणा की ड्यूटी के दौरान मौत हो गई थी। मृतक इंदौर के प्रधान आरक्षक का पोस्टमार्टम मंगलवार को आष्टा सिविल अस्पताल के पोस्टमार्टम कक्ष में कराया था। उसके पश्चात शव इंदौर भेजा गया था। इससे पहले एक बच्चा और तीन महिलाओं की मौत रुद्राक्ष महोत्सव के शुरुआती दो दिन में हो गई थी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 February 2023

 ट्रेनों में भारी  भरकम भीड़

मध्यप्रदेश के सीहोर में चल रहे रुद्राक्ष उत्सव में शामिल होने देशभर से श्रद्धालु भोपाल पहुंच रहे हैं। वहीं, कई श्रद्धालु भोपाल से घरों के लिए वापसी भी कर रहे हैं। इसे देखते हुए भोपाल रेल मंडल ने शु्क्रवार-शनिवार की दरमियानी रात भोपाल स्टेशन से दो स्पेशल ट्रेनें भी चलाई गईं। ये ट्रेनें भोपाल से बैतूल और भुसावल के लिए रवाना हुईं। भोपाल रेल मंडल के डीआरएम सौरभ बंदोपाध्याय ने बताया कि ज्यादा भीड़ को देखते हुए यह निर्णय तुरंत लिया गया। बता दें कि भोपाल स्टेशन पर आम दिनों की तुलना में दो से तीन गुना तक भीड़ बढ़ गई है।डीआरएम सौरभ बंदोपाध्याय ने बताया कि हमें पहले से पता नहीं होता कि श्रद्धालु जो वापस आ रहे हैं, वह किस रूट पर जाएंगे। जैसे, कल कई जत्थे भोपाल पहुंचे, जिनकी संख्या 600 से अधिक थी, तो हमने स्पेशल ट्रेन चलाई। शनिवार के लिए भी ट्रेन चलाने की तैयारी थी, मगर अभी तक ऐसे जत्थे मौजूद नहीं थे। आगे भी भीड़ बढ़ती है, तो इस तरह के निर्णय ले सकते हैं।भोपाल स्टेशन पर मौजूद इमरजेंसी डॉक्टर धमेंद्र राय ने बताया कि आम दिनों में यहां चार से पांच मामले रोज आते हैं, मगर पिछले तीन दिनों में यहां 50 से अधिक मामले उल्टी-दस्त के आ चुके हैं। इन सभी को उल्टी-दस्त की समस्या देखी गई। संभवत: कहा जा सकता है कि लोगों ने कुछ खाने पीने में गलत खा लिया, तो ऐसा हुआ।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 February 2023

आस्था का केंद्र,मंदिर

मध्यप्रदेश में अनेक धार्मिक स्थल है,जिनकी प्रसिद्धि दुनियाँ भर में है,प्रदेश का संस्कृति विभाग सीहोर स्थित देवबड़ला को एक बड़े धार्मिक पर्यटन केंद्र के रूप में विकसित करने की योजना बना रहा है। 2016 में देवबड़ला पहाड़ी पर खुदाई शुरू होने के बाद यहां 11 प्राचीन मंदिरों के होने का अनुमान पुरातत्व विभाग ने लगाया था।विभाग वर्तमान में तीसरे (देवी मंदिर) और चौथे (शिव मंदिर) के पुनर्निर्माण के लिए डीपीआर पर काम कर रहा है। 9 मंदिरों की खुदाई का काम पूरा हो चुका है और दसवें की खुदाई चल रही है। अधिकारियों के मुताबिक 3-4 साल में सभी मंदिरों के पुनर्निर्माण की उम्मीद है।साल 2020 में 35 लाख की लागत से 52 फीट ऊंचे पहले शिव मंदिर का निर्माण पूरा होने के बाद दूसरे विष्णु मंदिर का निर्माण वर्तमान में जारी है। 10 -11 शताब्दी में बने ये मंदिर भूमिज शैली में बने हुए हैं। उसी शैली के आधार पर इनका पुनर्निर्माण मूल संरचना में किया गया है। मंदिरों में मूर्तियां स्थापित करने के बाद बची हुई मूर्तियों से एक संग्रहालय का निर्माण उसी क्षेत्र में होगा। हालांकि 2020 में पहले शिव मंदिर का पुनर्निर्माण हो जाने के बाद से स्थानीय लोग यहां पूजा-पाठ करते रहे हैं।पुरातत्वविदों के मुताबिक ये प्राचीन मंदिर प्राकृतिक कारणों जैसे भूकंप आदि की वजह से नष्ट हुए होंगे। हालांकि परमार काल में बने ये मंदिर किसी आक्रमण की वजह से भी नष्ट होने की संभावना है।पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर ने कहा कि शीघ्र ही पहले संरक्षित शिव मंदिर का भव्य उद्घाटन होगा। साथ ही देवबड़ला में स्थित सभी मंदिरों को संरक्षित करके सम्पूर्ण क्षेत्र को एक धार्मिक पर्यटन केंद्र के रूप में विकसित करने की योजना है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 February 2023

रुद्राक्ष महोत्स्व में असंख्य भीड़

जहां नजर दौड़ाओ दूर तक सिर्फ नरमुंड ही नरमुंड दिख रहे। सड़क किनारे कोई बेसुध पड़ा है तो कोई चीख-पुकार रहा है। बच्चे बेहाल हैं और बुजुर्ग मदद मांग रहे हैं। लाखों जानें, हजारों गाड़ियां महाजाम में फंसी हुई हैं। ये हालात कुबेरेश्वर धाम से भोपाल की ओर आने वाले 20 किमी लंबे रास्ते पर जहां-तहां दिख जाएंगे।भोपाल फोरलेन पर सीहोर के चौपाल सागर चौराहे से आष्टा के पहले तक आठ घंटे ऐसा ही जाम। क्योंकि सीहोर के चितावलिया हेमा गांव में बने कुबेरेश्वर धाम में गुरुवार से शुरू हुए रुद्राक्ष महोत्सव में 20 लाख से ज्यादा लोग पहुंचे हैं। खुद सीहोर कलेक्टर प्रवीण सिंह इस आंकड़े की पुष्टि कर रहे हैं। धाम में बेकाबू भीड़ के कारण हालात इस कदर बिगड़ चुके हैं कि यहां एक महिला की मौत हो गई, कई लापता हैं। दिनभर 5 श्रद्धालुओं की मौत की अफवाह उड़ती रही, लेकिन देर रात तक किसी भी अफसर ने इसकी पुष्टि नहीं की।मृतक की पहचान महाराष्ट्र के मालेगांव निवासी 54 वर्षीय माला बाई खांडेकर के रूप में हुई है। पीएम रिपोर्ट में उनकी मौत का कारण हार्ट अटैक बताया गया है। यहां की अव्यवस्था के कारण मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को भी अपना कुबेरेश्वर धाम का दौरा निरस्त करना पड़ा। भीड़ में सैकड़ों लोग गुम हुए हैं। सीहोर एसपी मयंक अवस्थी का कहना है कि 1500 का फोर्स लगा हुआ है। इनमें 500 जवान सीहोर के हैं, जबकि 1000 पीएचक्यू से बुलाए हैं। लेकिन, सड़क पर पैदल चलने वाले लाखों हैं, इसलिए महाजाम लगा।रुद्राक्ष के लिए भीड़ न टूटे, इसलिए बुधवार से ही रुद्राक्ष बांटना शुरू कर दिया गया था, लेकिन गुरुवार सुबह इतनी भीड़ आई कि 10 काउंटर्स पर घंटों लाइन में लगे लोग बेकाबू हो गए। एक-दूसरे पर चढ़ते, कुचलते हुए सभी जल्द रुद्राक्ष लेना चाहते थे। माहौल बिगड़ता देख दोपहर में पं. मिश्रा ने रुद्राक्ष वितरण बंद कर दिया। पुलिस सहायता केंद्र से अनाउंसमेंट करवाया जा रहा है कि जो भी गुम हुआ हो, उसकी जानकारी यहां दें। भोपाल की नीलू, होशंगाबाद की शकुन जैसे कई लोगों ने अपनों की जानकारी पर्ची में लिखकर दी।जाएं भोपाल। हाईवे पर जाम के चलते इंदौर से भोपाल आने-जाने वाले वाहन लंबे समय तक फंसे रहे। इसके चलते प्रशासन ने रूट डायवर्ट कर दिया। अब इंदौर से आष्टा-कालापीपल होकर वाहनों की आवाजाही हो रही है। इंदौर से रवाना हुई एआईसीटीएसएल की 64 बसें देरी से आई और गई।ये बसें डायवर्ट रूट से चलीं। साढ़े तीन घंटे का सफर करीब छह घंटे में पूरा हुआ। सरवटे बस स्टैंड से चलने वाली 65 बसें भी तीन घंटे देरी से आईं और गईं। इंदौर ट्रैफिक पुलिस ने लोगों से अपील की है कि वाहन चालक देवास-सारंगपुर-पचोर-नरसिंहगढ़ होकर या फिर डबलचौकी-खातेगांव- नसरुल्लागंज-रेहटी-अब्दुल्लागंज होकर भोपाल तक आ-जा सकते हैं

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 February 2023

sehore, Rudraksh festival,Kubereshwar Dham

सीहोर। जिला मुख्यालय से सात किमी दूरी पर भोपाल-इन्दौर राजमार्ग पर स्थित ग्राम हेमा चितावलिया में बने कथावाचक पंडित प्रदीप मिश्रा के कुबेरेश्वर धाम में गुरुवार को सुबह सात दिवसीय शिव महापुराण कथा और रूद्राक्ष महोत्सव का शुभारम्भ हुआ। इस महोत्सव में शामिल होने के लिए पिछले तीन दिन से लोगों की भीड़ यहां जमा हो रही है। गुरुवार अलसुबह भी हजारों लोग यहां पहुंचे। एक हाथ हजारों वाहनों से श्रद्धालुओं के यहां पहुंचने के कारण 70 एकड़ में पांच स्थानों पर बनाई गई पार्किंग फुल हो गई। इसके बाद लोगों ने हाइवे सहित ग्रामीण क्षेत्र के रास्तों में वाहन खड़े करना शुरू हो कर दिए। इससे इंदौर-भोपाल राजमार्ग पर लम्बा जाम लग गया।   कुबेरेश्वर धाम में रुद्राक्ष महोत्सव 22 फरवरी तक चलेगा। अब तक करीब 10 लाख लोग इस महोत्सव में शामिल होने के लिए सीहोर पहुंच चुके हैं। गुरुवार सुबह यहां इतनी भीड़ जमा हो गई कि पैदल चलना तक मुश्किल है। पार्किंग पूरी तरह फुल होने के कारण श्रद्धालुओं को यहां-वहां वाहन खड़े करने पड़े। बड़े वाहनों के प्रतिबंध होने के बाद भी प्रवेश कर गए, जिससे सुबह छह बजे से हालात बिगड़ना शुरू हो गए, जिससे समिति व प्रशासन के इंतजाम ध्वस्त हो गए। जब हालात बिगड़ने लगे तो सीहोर के पास सोयाचौपाल व सोंडा के पास से वाहनों के प्रवेश रोकना शुरू कर दिया। ऐसे में श्रद्धालु पैदल ही कुबेरेश्वर धाम जाना शुरू कर दिया।     कुबेरेश्वर धाम से इछावर रोड तक सात किमी का लंबा जाम लगा है। सीहोर से इंदौर की तरफ हाईवे पर 17 किलोमीटर लंबा जाम लगा हुआ है। भोपाल की ओर हाईवे पर 10 किलोमीटर लंबा जाम लगा हुआ है। अधिक भीड़ होने के कारण फोन नेटवर्क भी काम नहीं कर पा रहे। पुलिस और प्रशासन की टीम के अलावा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, बजरंग दल, स्थानीय लोग, समिति सदस्य सहित कुल 15 हजार लोग व्यवस्थाएं संभाल रहे हैं। इनकी ड्यूटियां कथा पंडाल, भोजन पंडाल, रुद्राक्ष वितरण केंद्र पर लगी हुई है।     यहां सुबह 10 बजे तक यहां पांच लाख श्रद्धालुओं को रुद्राक्ष बांटे गए। एक दिन पहले भी डेढ़ लाख रुद्राक्ष बांटे गए थे। यहां 40 काउंटर से रुद्राक्ष बांटे जा रहे हैं। कुबेरेश्वर धाम में श्रद्धालुओं के लिए 24 घंटे रुद्राक्ष वितरण किए जा रहे है, जिसको लेकर दो से तीन किमी लंबी कतार में श्रद्धालु लगे हुए हैं। ऐसे में उन्हें घंटो इंतजार करना पड़ रहा है। यही कारण है कि रुद्राक्ष के लिए लोगों में होड़ लगी हुई है, वहीं यह भी खबर है कि 10 से अधिक लोग बेहोश हो गए है, जिन्हें अस्पताल पहुंचाया जा रहा है। लोगों का कहना है कि अव्यवस्था होने से बैरिकेड्स भी टूट गए है, जिससे भगदड़ जैसे हालात हो गए थे। इस दौरान तीन महिलाएं लापता हो गईं। एक महिला छत्तीसगढ़ के भिलाई से आई हैं, दूसरी राजस्थान के गंगापुर की रहने वाली हैं, तीसरी महाराष्ट्र के बुलढाणा की रहने वाली महिला भी लापता है।     सात दिवसीय रुद्राक्ष वितरण महोत्सव का गुरुवार को पहला दिन है। हालांकि कुबेरेश्वर धाम में अपार भीड़ पहुंचने से एक दिन पहले ही रुद्राक्ष वितरण शुरू कर दिया था। क्योंकि आयोजन के दो दिन पहले से हजारों लोग कुबेरेश्वर धाम पहुंच गए थे, जिसके चलते एक दिन पहले से रुद्राक्ष वितरण शुरू किया गया था, लेकिन इसकी सूचना कम लोगों को थी। इएलिए गुरुवार को रुद्राक्ष लेने बड़ी संख्या में लोग पहुंच रहे हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 February 2023

sehor, Uncontrolled bus, Budni Nagar

सीहोर। जिले के बुदनी नगर में मंगलवार सुबह एक सड़क हादसा हो गया। यहां सिवनी मालवा से नसरूल्लागंज जा रही एक यात्री बस अनियंत्रित होकर सड़क किनारे पलट गई। इस हादसे में बस सवार करीब 25 यात्री घायल हुए है। घायलों में तीन की हालत गंभीर बताई जा रही है। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को एंबुलेंस की मदद से बुदनी जिला अस्पताल भिजवाया, जहां सभी का ईलाज जारी है। फिलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।   जानकारी अनुसार सुशील ट्रैवल्स की बस शिवपुर से नसरूल्लागंज के बीच में चलती है। मंगलवार सुबह बस शिवपुर से रवाना होकर नसरूल्लागंज जा रही थी। इस दौरान सुबह करीब नौ बजे बुदनी जिले के होलीपुरा-ऊंचाखेड़ा के बीच तेज रफ्तार होने के कारण बस अनियंत्रित होकर सड़क किनारे लगे पेड़ से टकरा गई और टकराने के बाद पलट गई। घटना के बाद मौके पर चीख पुकार मच गई। स्थानीय लोगों ने तुरंत पुलिस को सूचना दी। घटना की सूचना मिलते ही बुदनी पुलिस मौके पर पहुंची और रहवासियों की मदद से बस में फंसे लोगों को बाहर निकाला। इस दौरान होशंगाबाद, बुदनी, वर्धमान सहित अन्य जगहों से एंबुलेंस भी मौके पर पहुंची। सभी घायलों को एंबुलेंस से बुदनी जिला अस्पताल में भर्ती कराया। घटना के समय बस में 25 यात्री सवार थे। हादसे में सभी घायल हुए है। घायलों में तीन की हालत गंभीर बताई जा रही है। फिलहाल सभी का अस्पताल में इलाज चल रहा है। गनीमत रही कि हादसे में किसी तरह की कोई जनहानि नही हुई। बुदनी थाना प्रभारी विकास खिची ने बताया कि होलीपुरा-ऊंचाखेड़ा के बीच में सुशील ट्रैवल्स की बस पलटी है। मौके पर जाकर घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 February 2023

पढ़ो, खेलो और स्व-रोजगार से जुड़ो : मुख्यमंत्री

खेल आनंद, प्रसन्नता देने के साथ शरीर को मजबूत बनाते हैं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने युवाओं से कहा है कि पढ़ो, खेलो और स्व-रोजगार से जुड़ो। पढ़ाई के साथ खेल भी आवश्यक है। खेल आनंद, प्रसन्नता देते हैं और शरीर को मजबूत बनाते हैं। प्रदेश में विद्यार्थियों को पढ़ाई के साथ खेलकूद के पूरे अवसर और सुविधाएँ प्रदान की जा रही हैं। अभिभावक अपने बच्चों को पढ़ाई के साथ खेलकूद के लिए भी प्रोत्साहित करें। मुख्यमंत्री चौहान और प्रसिद्ध क्रिकेटर एवं सांसद  गौतम गंभीर आज रेहटी (सीहोर) में प्रेम सुंदर मेमोरियल क्रिकेट टूर्नामेंट में शामिल हुए और खिलाड़ियों का उत्साह एवं मनोबल बढ़ाया।  साधना सिंह, सांसद  रमाकांत भार्गव, आयोजन समिति प्रमुख  कार्तिकेय सिंह चौहान, जन-प्रतिनिधि सहित बड़ी संख्या में युवा खिलाड़ी एवं क्रिकेट प्रेमी मौजूद रहे। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि  गौतम गंभीर ने देश-विदेश में भारत का मान-सम्मान बढ़ाया है। उन्होंने 6 बार टेस्ट मैच में भारत की कप्तानी की और निरंतर सफलता प्राप्त की। वर्ष 2011 में भारत को ऐतिहासिक विजय दिलवाई। वे क्रिकेटर के साथ सांसद भी हैं और जन-कल्याण के लिए जैन रसोई भी चलाते हैं। मुख्यमंत्री  चौहान ने गौतम गंभीर से मध्यप्रदेश के बच्चों को क्रिकेट का प्रशिक्षण देने में सहयोग करने का आग्रह भी किया। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि मैं अपने माता-पिता के चरणों में प्रणाम एवं वंदन करता हूँ, जिन्होंने आज मुझे इस मुकाम पर पहुँचाया है। मैं एक छोटे किसान परिवार का हूँ। बचपन में ही मेरी माता नहीं रही थी। पिता ने पढ़ाने और आगे बढ़ाने में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ी। आप अपने जीवन में कभी भी माता-पिता का सम्मान और सेवा करना न भूलें। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में खेलकूद के लिए उपयुक्त वातावरण है। विद्यार्थी पढ़ाई के साथ खेलें। मध्यप्रदेश से ऐसे खिलाड़ी निकले, जो पूरे देश में धूम मचाए। विधायक और सीएम कप में विभिन्न खेलों का आयोजन किया जाता है। कबड्डी, खो-खो, व्हॉली-बॉल और क्रिकेट के साथ अब बेटियाँ भी खेलेंगी। प्रदेश के हर गाँव में खेल की सुविधाएँ दी जा रही हैं। 110 गाँव में बुनियादी सुविधायुक्त खेल के मैदान बनाए जा रहे हैं। नसरुल्लागंज में खेल स्टेडियम है, रेहटी में भी खेल स्टेडियम बनाया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में 10वीं एवं 12वीं के ऐसे बच्चे जो 70% या अधिक अंक लाते हैं उन्हें स्कॉलरशिप दी जाएगी। प्रदेश में सीएम राइज स्कूल खोले जा रहे हैं और गाँव-गाँव में स्मार्ट क्लास बनाई जा रही है। कक्षा 12वीं में 75 प्रतिशत से अधिक अंक लाने पर लैपटॉप दिया जाता है और उच्च शिक्षा की फीस भी मामा भरवाता है। सरकार द्वारा विद्यार्थियों को प्रतियोगी परीक्षाओं की कोचिंग की सुविधा ऑफलाइन एवं ऑनलाइन प्रारंभ की जा रही है। मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि प्रदेश में नौकरियों के साथ ही स्व-रोजगार के पर्याप्त अवसर उपलब्ध कराए जा रहे हैं। मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना, उद्यम क्रांति योजना में एक लाख से 50 लाख रूपये तक का ऋण युवा उद्यमियों को दिया जाता है। साथ ही सरकार 3 प्रतिशत ब्याज अनुदान भी देती है। कलेक्टर और कमिश्नर युवाओं को इन योजनाओं की जानकारी दें एवं स्व-रोजगार स्थापना में उनका सहयोग करें। मुख्यमंत्री चौहान ने अच्छे आयोजन के लिए आयोजकों को बधाई दी। गौतम गंभीर ने कहा कि मुख्यमंत्री  चौहान मध्यप्रदेश की आन-बान और शान है। आप सभी भाग्यशाली हैं जो आपको इतने अच्छे इंसान मुख्यमंत्री के रूप में मिले हैं। मध्यप्रदेश में 43 लाख से अधिक बेटियों को लाड़ली लक्ष्मी योजना का लाभ मिल रहा है, देश के किसी राज्य में इस तरह की योजना नहीं है। गंभीर ने टूर्नामेंट के सफल आयोजन के लिए आयोजकों को बधाई दी और कहा कि ऐसे ही टूर्नामेंटों में खेलते हुए मैं आगे बढ़ा हूँ।   क्रिकेट टूर्नामेंट का शुभारंभ 12 दिसंबर से प्रारंभ हुआ और इसमें बुधनी विधानसभा क्षेत्र की 14 टीमों ने हिस्सा लिया। रविवार को फाइनल मुकाबला बुधनी और भैरूंदा टीमों के बीच खेला गया। प्रदेश के 101 गाँव में बनेंगे खेल मैदान रेहटी में बनाया जाएगा खेल स्टेडियम 10वीं एवं 12वीं में 70% और अधिक अंक लाने पर मिलेगी स्कॉलरशिप मुख्यमंत्री चौहान और प्रसिद्ध क्रिकेटर गौतम गंभीर रेहटी में प्रेम सुंदर मेमोरियल क्रिकेट टूर्नामेंट में शामिल हुए  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 December 2022

बुधनी सिटी यूनाइटेड बनी विजेता

मुख्यमंत्री और क्रिकेटर गंभीर ने विजेता टीम को प्रदान की ट्राफी प्रेम सुंदर मेमोरियल क्रिकेट स्पर्धा का फाइनल मैच बुधनी सिटी यूनाइटेड ने 76 रनों से जीता। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, सांसद  गौतम गंभीर ने विजेता टीम को ट्राफी प्रदान की और प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया। टूर्नामेंट का फाइनल मैच भेरूंदा बुल्स एवं बुधनी सिटी यूनाइटेड के बीच खेला गया। मुख्यमंत्री  चौहान ने खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि मैच में कौन जीता कौन हारा यह महत्वपूर्ण नहीं है। महत्वपूर्ण यह है कि यहाँ आनंद का वातावरण बना। सभी को नई ऊर्जा, नई प्रेरणा मिली। इस टूर्नामेंट में 200 से अधिक टीमों ने भाग लिया, जिनमें 4000 खिलाड़ी शामिल हुए।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 December 2022

शिक्षा का उद्देश्य विद्यार्थियों की स्वाभाविक प्रतिभा को प्रकट करना

  बच्चों की कलाकृतियाँ देख कर अभिभूत हूँ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि विद्यार्थियों की स्वाभाविक प्रतिभा को प्रकट करना शिक्षा का उद्देश्य और शिक्षकों का धर्म है। स्कूल शिक्षा का "अनुगूंज'' कार्यक्रम इस उद्देश्य को बखूबी पूरा करता है। यहाँ पर लगाई गई प्रदर्शनी में बच्चों की कलाकृतियाँ देख कर मैं अभिभूत हूँ। उनके द्वारा बनाये गये मिट्टी के खिलौने, पेंटिंग्स, फोटोग्राफ्स और अन्य कलाकृतियाँ अद्भुत हैं। ये बच्चे श्रेष्ठ फोटोग्राफर, कलाकार, वैज्ञानिक, संगीतकार आदि बनेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान सोमवार को शासकीय सुभाष उत्कृष्ट विद्यालय में स्कूल शिक्षा विभाग के दो दिवसीय "अनुगूंज''  कार्यक्रम के समापन समारोह को संबोधित कर रहे थे।   मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में नई शिक्षा प्रणाली लागू हुई है। हम शिक्षा के क्षेत्र में नया इतिहास रचेंगे। पहले मध्यप्रदेश शिक्षा के क्षेत्र में देश में 17वें स्थान पर था, अब 5वें स्थान पर आ गया है। मध्यप्रदेश में सरकारी स्कूलों के बच्चे हर क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन कर रहे हैं। मध्यप्रदेश में वह दिन भी आयेगा जब लोग अपने बच्चों को निजी स्कूलों से निकाल कर सरकारी स्कूलों में डालेंगे। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में शीघ्र ही स्कूल शिक्षा एवं अनुसूचित जनजाति कल्याण विभाग में 50 हजार शिक्षकों की भर्ती होगी। इन्हें सम्मानजनक पारिश्रमिक एवं अन्य सुविधाएँ दी जायेंगी। अगले 3 वर्षों में सीएम राइज स्कूल अन्य विद्यालयों को मात कर देंगे। मुख्यमंत्री चौहान ने विद्यार्थियों से कहा कि बच्चे बड़े से बड़ा काम कर सकते हैं। स्वामी विवेकानंद जी कहते थे कि हम साधारण मानव नहीं, ईश्वर के अंश हैं, अनंत शक्तियों के भण्डार हैं। अपनी शक्तियों को पहचानो। शिक्षा व्यक्ति की आंतरिक क्षमता को प्रकट करने का अवसर प्रदान करती है। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में 12वीं कक्षा में 75 प्रतिशत और उससे अधिक अंक लाने वाले विद्यार्थियों को लेपटॉप दिया जा रहा है, साथ ही ऐसे विद्यार्थियों को विभिन्न प्रोफेशनल कोर्सेस में प्रवेश पर उनकी उच्च शिक्षा की फीस भी सरकार भर रही है। मुख्यमंत्री चौहान ने अभिभावकों से कहा कि वे बच्चों को केवल पढ़ाई के लिये ही न कहे, बल्कि उनकी रूचि अनुसार खेल-कूद एवं कला के क्षेत्र में भी प्रेरित करें। मुख्यमंत्री  चौहान ने बच्चों के साथ मिल कर नारे लगाये- "हम खेलेंगे कूदेंगे-आसमान को छू लेंगे हम पढ़ेंगे-लिखेंगे आसमान को छू लेंगे।''   सीहोर जिले में शिक्षक कर रहे हैं अनूठा नवाचार मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि मुझे यह बताते हुए गर्व महसूस हो रहा है कि सीहोर जिले के शिक्षक मिल कर एक अनूठा नवाचार कर रहे हैं। उनके द्वारा यह संकल्प लिया गया है कि जिले के सभी शासकीय विद्यालयों में स्मार्ट क्लॉस बने। इसके लिये शिक्षक अपने स्तर पर राशि एकत्र कर रहे हैं और ग्रामीणों से भी मदद ले रहे हैं। उनका प्रयास है कि बिना सरकारी मदद के सभी स्कूलों में टेलीविजन लगा कर स्मार्ट क्लॉस बनाई जाये। यह एक क्रांति है और शिक्षकों की ललक है, जो सरकारी स्कूलों में शिक्षा को आगे बढ़ा रहे हैं।   स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार)  इंदर सिंह परमार ने कहा कि अनुगूँज कार्यक्रम से सरकार कला और शिक्षा को जोड़ कर आगे बढ़ाने का कार्य कर रही है। हमारे बच्चों की प्रतिभाओं का विकास हो रहा है और वे राष्ट्रीय स्तर पर स्थापित हो रहे हैं। अपनी कला से मध्यप्रदेश के विद्यार्थी एक भारत, श्रेष्ठ भारत का संदेश पूरे देश में पहुँचा रहे हैं। इस वर्ष से संभाग स्तर पर भी यह कार्यक्रम प्रारंभ किया गया है। उन्होंने विद्यार्थी विनीत गायत्री सिंह (नृत्य), जान्हवी राघव (नाट्य कला), अभय खरे (नाट्य कला) की कला की सराहना की। मुख्यमंत्री चौहान ने दीप प्रज्ज्वलन कर कार्यक्रम का विधिवत शुभारंभ किया। इसके पूर्व उन्होंने प्रदर्शनी में विद्यार्थियों की कलाकृतियों को देखा और सराहा। उन्होंने विद्यार्थियों से बातचीत भी की। अनुगूँज कार्यक्रम में विद्यार्थियों ने आकर्षक प्रस्तुतियाँ दी, जिन्हें मुख्यमंत्री सहित उपस्थितजन ने सराहा।  प्रदेश में नई शिक्षा प्रणाली लागू हुई है, शिक्षा के क्षेत्र में नया इतिहास रचेंगे वह दिन भी आयेगा जब लोग निजी स्कूलों से अपने बच्चों को निकाल कर सरकारी स्कूलों में डालेंगे प्रदेश में 50 हजार शिक्षकों की होगी भर्ती मुख्यमंत्री चौहान सपत्नीक "अनुगूंज कार्यक्रम में शामिल हुए विद्यार्थियों की प्रस्तुतियों का आनंद लिया और सराहा

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 December 2022

जो दूसरों को जीते वह वीर और जो स्वयं को जीत ले वह महावीर : मुख्यमंत्री

  1008 मज्जिनेंद्र पंच कल्याणक प्रतिष्ठा महोत्सव एवं विश्व शान्ति महायज्ञ में शामिल हुए मुख्यमंत्री चौहान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सीहोर के बाल-विहार मैदान में चल रहे जैन समाज के 1008 मज्जिनेंद्र पंच कल्याणक प्रतिष्ठा महोत्सव एवं विश्व शान्ति महायज्ञ में शामिल हुए। मुख्यमंत्री  चौहान ने मुनि श्री संस्कार महाराज के दर्शन कर आशीर्वाद प्राप्त किया और देश-प्रदेश के लिए सुख समृद्धि की कामना की।मुख्यमंत्री चौहान ने कहा‍कि जो दूसरों को जीते वह वीर और जो स्वयं को जीत ले वह महावीर होता है। उन्होंने कहा कि महावीर जितेंद्रिय होता है, जो जितेंद्रिय होता है वह जिन और जो जिन होता है वही जैन होता है। उन्होंने कहा कि अपने आपको जीत लेने वाला ही जैन होता है।   मनकामेश्वर मंदिर में की पूजा-अर्चना मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सीहोर के बड़ा बाजार स्थित मनकामेश्वर मंदिर में भगवान भोलेनाथ की पूजा-अर्चना की। मुख्यमंत्री चौहान ने प्रदेश की सुख-समृद्धि की कामना की। विदिशा सांसद रमाकांत भार्गव, भोपाल सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर, विधायक सर्वश्री सुदेश राय और रघुनाथ मालवीय, रवि मालवीय, जिला पंचायत अध्यक्ष गोपाल सिंह इंजीनियर, नगर पालिका अध्यक्ष प्रिंस राठौर और अन्य जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 November 2022

सभी के सहयोग से सीहोर को भारत के अग्रणी नगरों में एक बनायेंगे:मुख्यमंत्री

भोपाल के उप नगर के रूप में विकसित किया जायेगा सीहोर को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि सभी के सहयोग से सीहोर को भारत के अग्रणी नगरों में एक बनाया जायेगा। सीहोर के विकास में कोई कमी नहीं रखी जायेगी। यहाँ औद्योगिक क्षेत्र विकसित किया जायेगा। भोपाल के उप नगर के रूप में सीहोर का विकास किया जायेगा। भोपाल से सीहोर को लाइट मेट्रो के माध्यम से जोड़ा जायेगा। यहाँ के प्रसिद्ध चिंतामन गणेश मंदिर का भी श्री महाकाल लोक की तरह विकास किया जायेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सीहोर वीरों की भूमि है। अमर शहीद चैन सिंह ने अंग्रेजों के छक्के छुड़ा दिये। सीहोर में जिस स्थान पर शहीदों को तोप से उड़ा दिया गया था, वहाँ जलियावाला बाग की तरह ही भव्य स्मारक का निर्माण किया जायेगा। मुख्यमंत्री चौहान आज सीहोर में सीहोर गौरव दिवस समारोह में शामिल हुए। उन्होंने सीहोर की 32 हस्तियों को गौरव सम्मान से सम्मानित किया। उन्होंने कार्यक्रम स्थल पर ही अनेक विकास कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास किया। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा‍कि सीहोर का शरबती गेहूँ दुनियाभर में मशहूर है। इसके निर्यात को प्रोत्साहित किया जाना जरूरी। सीहोर कृषि विज्ञान केन्द्र में ही सोयाबीन की दो किस्में जवाहर 9305 और 15601 विकसित की गईं। सीहोर की कचौरी, कड़ी, पूरी, सीरा, सेव, मंगोड़े प्रसिद्ध हैं। सीहोर में कृषि यंत्र बनते हैं। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश में बेटियों के सम्मान को सर्वोच्च प्राथमिकता दी जाती है। बेटियों के प्रति दुराचार करने वालों को फाँसी की सजा का प्रावधान है। अभी तक 89 व्यक्तियों को फाँसी की सजा सुनाई गई है। बेटियों की उच्च शिक्षा की फीस सरकार भरती है। मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी योजना में 12वीं में 75 प्रतिशत या इससे अधिक अंक लाने वालों को सरकार लेपटॉप तो देती ही है, साथ ही उनकी उच्च शिक्षा की फीस भी सरकार भरती है। प्रदेश में बड़ी संख्या में सरकारी भर्तियों के अलावा उद्योगों से रोजगार सृजित किये जा रहे हैं। स्व-रोजगार के लिये भी व्यापक अवसर उपलब्ध कराये जा रहे हैं। प्रदेश में ऐतिहासिक फैसला लेते हुए मेडिकल एवं इंजीनियरिंग की पढ़ाई हिन्दी में प्रारंभ की गई है। मुख्यमंत्री चौहान ने सीहोर के विकास के लिये रखी गई विभिन्न माँगों, नगर में सीसी रोड निर्माण, फुटपाथ निर्माण, नाला सौंदर्यीकरण, दो पुल निर्माण, स्ट्रीट लाइट्स में एलईडी लगवाने, तालाब गहरीकरण, मार्ग निर्माण आदि को पूरा करने की घोषणा की। उन्होंने कार्यक्रम में उपस्थित सभी को नगर को आगे बढ़ाने, नगर को स्वच्छता में नम्बर-1 बनाने और नशामुक्ति आदि का संकल्प दिलाया।   समाजजनों ने नगर के विकास का संकल्प लिया मुख्यमंत्री चौहान की प्रेरणा पर नगर के विभिन्न समाज के लोगों ने नगर के विकास में योगदान करने का संकल्प लिया। राठौर समाज ने 11 कन्याओं के विवाह, चौरसिया समाज ने सफाईकर्मियों को गणवेश देने, जैन समाज ने प्रवेश द्वार के निर्माण, आई.ई.एफ. स्कूल द्वारा दो चौराहों के सौंदर्यीकरण, नगर पालिक अध्यक्ष प्रिसं राठौर द्वारा प्रत्येक गली में दुकानों के आगे डस्टबिन रखवाने, ब्राम्हण समाज द्वारा 4 आँगनवाड़ियों को गोद लेने, संडे सुकून ग्रुप द्वारा नगर में बड़े गमले रखवाने और सेल्फी पॉइन्ट बनवाने, किराना व्यापारी संघ ने सभी चौराहों पर डस्टबिन रखवाने का, अग्रवाल समाज द्वारा प्रमुख चौराहे के सौंदर्यीकरण, पेट्रोल पम्प संघ द्वारा कचरा गाड़ी देने, क्रिश्चियन समाज द्वारा तहसील चौराहे का सौंदर्यीकरण और मुस्लिम समाज द्वारा नगर के सौंदर्यीकरण के लिये बिजली व्यवस्था का संकल्प लिया। सांसद प्रज्ञा ठाकुर ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश की तस्वीर बदल दी है। वे निरंतर प्रदेश के विकास में लगे रहते हैं। प्रदेश में बेटियों का विशेष सम्मान है। बेटियों के प्रति अत्याचार करने वालों को फाँसी की सजा दी जाती है। विधायक सुदेश राय ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री चौहान सीहोर के सबसे बड़े गौरव हैं। उन्होंने पहली बार मुख्यमंत्री के रूप में 29 नवम्बर, 2005 को शपथ ग्रहण की थी। इसी दिन को सीहोर के गौरव दिवस के रूप में मनाया जा रहा है। नगरपालिका अध्यक्ष श्री प्रिंस राठौर ने स्वागत भाषण दिया। घर-आँगन को रंगोली, दीप और रंग-बिरंगी रोशनी से सजाया सीहोर नगर के गौरव दिवस पर रोड-शो के दौरान नागरिकों द्वारा पुष्प वर्षा कर किए गए अभिनंदन से मुख्यमंत्री  चौहान अभिभूत हुए और नगरवासी भी अपने बीच मुख्यमंत्री को पाकर भाव-विभोर हो उठे। लगभग दो किलोमीटर चले रोड-शो में बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक सभी अपने घरों से बाहर  निकल कर मुख्यमंत्री का स्वागत करने आतुर दिखे।  नगर के गौरव दिवस पर नगरवासियों ने अपने घरों को रंग-बिरंगी रोशनी,  रंगोली और दीप जला कर घर-आँगन को सजाया। पार्श्व गायक मोनाली ठाकुर ने दी आकर्षक प्रस्तुति सीहोर के गौरव दिवस समारोह में पार्श्व गायक मोनाली ठाकुर ने आकर्षक गीतों की प्रस्तुति दी। उपस्थित जन इन प्रस्तुतियों से मंत्रमुग्ध हो उठे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 November 2022

दुर्गेश : राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा कम और सर्कस ज्यादा

  कांग्रेस को ओर कमलनाथ को देश के हिंदुओं से माफी मांगना चाहिये आष्टा । मप्र भाजपा के प्रवक्ता दुर्गेश केशवानी ने राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा को लेकर कहा ये यात्रा कम और सर्कस ज्यादा नजर आ रहा है,कमलनाथ द्वारा जन्मदिन पर मन्दिर की आकृति का केक काटने से हिंदुओ की आस्था आहत हुई,माफी मांगे कमलनाथ भाजपा द्वारा ग्रामीण जनप्रतिनिधियों के एक दिवसीय प्रशिक्षण वर्ग में विषय के मुख्य वक्ता के रूप में शामिल होने आष्टा आये  मप्र भाजपा के प्रवक्ता डॉ दुर्गेश केशवानी ने आज चर्चा में राहुल गांधी की भारत जोडो यात्रा को ले कर कहा की ये भारत जोड़ो यात्रा कम सर्कस ज्यादा नजर आ रही है। आपने देखा चल रही यात्रा के दौरान वे हंटर मारते, कभी कुछ करते दिखे मतलब ये यात्रा कम सर्कस ज्यादा दिख रही है। केशवानी ने कहा हाल ही में पूर्व मुख्यमंत्री  कमलनाथ द्वारा अपने जन्मदिन पर हनुमान जी के चित्र लगे,मन्दिर की आकृति के केक को काटा इससे हिंदुओ की धार्मिक भावना आहत हुई है। आखिर कमलनाथ जी को हिन्दू धर्म से इतनी घृणा क्यो है। उक्त केक को जिस प्रकार उन्होंने काटा उससे एक बार फिर मुगल आक्रांताओं की याद दिला दी। भगवान श्रीराम,हनुमान जी,राम मंदिर हमारी श्रद्धा आस्था के केंद्र बिंदु है। इस कृत्य के बदले कांग्रेस को ओर कमलनाथ जी को देश के हिंदुओं से माफी मांगना चाहिये। इसको लेकर देश उन्हें कभी माफ नही करेगा। उक्त कृत्य देश के हिंदुओं की धार्मिक भावना,उनकी आस्था पर प्रहार है। एक अन्य प्रश्न को लेकर केशवानी ने कहा राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा मप्र में आ रही है,उसको लेकर मप्र के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा जी ने स्पष्ट कर दिया है की कोई परिंदा भी पर नही मार सकता है,कमलनाथ जी को असली में चिंता कांग्रेस में जो अंदरूनी कलाह चल रही है उसकी है,घर की आंतरिक लड़ाई से उन्हें असुरक्षा का भाव लग रहा है। आयोजित प्रशिक्षण वर्ग को लेकर केशवानी ने कहा भाजपा में बैठक,वर्ग,प्रशिक्षण सतत चलने वाली प्रक्रिया का हिस्सा है। हम पूरी तैयारी से 23 एवं 24 में होने वाले विधानसभा लोकसभा के चुनाव में जनता के बीच अपने कार्यो,किये विकास को लेकर जायेंगे। निश्चित देश प्रदेश में हुए विकास के बदले जनता का आशीर्वाद भाजपा को पुनः मिलेगा।   दुर्गेश केशवानी , बीजेपी प्रवक्ता 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 November 2022

"एक जिला-एक उत्पाद" में सीहोर जिले के बुदनी के कलात्मक खिलौनें अब भोपाल में बिकेंगे

  गौहर महल में एक्सक्लूसिव शोरूम का हुआ शुभारंभ मुख्यमंत्री चौहान के निर्देश पर काष्ठ शिल्पियों की आय वृद्धि के प्रयास मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुदनी के लकड़ी के खिलौनों के विक्रय और प्रचार-प्रसार के निर्देश दिए थे। इन निर्देशों के अनुपालन में सीहोर जिला पंचायत और म.प्र. हस्तशिल्प विकास निगम द्वारा निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं। इसी क्रम में भोपाल के गौहर महल में आज संत रविदास हस्तशिल्प एवं हाथकरघा विकास निगम की प्रबंध संचालक अनुभा श्रीवास्तव ने एक्सक्लूसिव शोरूम का शुभारंभ किया। एंब्रॉयडरी हुरमुचो की विशेषज्ञ आर्टिस्ट सरला सोनेजा (ग्वालियर) विशेष रूप से उपस्थित थी। शोरूम प्रारंभ होने से काष्ठ शिल्पियों की आय में वृद्धि होगी।   अनेक हस्त शिल्पी रहे मौजूद   "एक जिला-एक उत्पाद" अंतर्गत बुदनी जिला सीहोर के लकड़ी के कलात्मक खिलौनें और अन्य हस्तशिल्प के एक्सक्लूसिव मृगनयनी शोरूम के शुभारंभ पर अनेक हस्त शिल्पी मौजूद रहे। उल्लेखनीय है कि काष्ठ शिल्प के उत्कृष्ट कलाकार बुदनी में कई वर्ष से लकड़ी के खिलौनों का विक्रय करते आ रहे हैं। इनका विभिन्न रेलवे स्टेशनों पर भी आउटलेट शुरू हुआ है। कार्यक्रम में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत सीहोर  हर्ष सिंह, हस्तशिल्पी, हस्तशिल्प विकास निगम के अधिकारी-कर्मचारी और कला प्रेमी नागरिक भी उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 November 2022

श्री महाकाल लोक की तर्ज पर सलकनपुर मंदिर के लिये भी प्रस्ताव रखें

मुख्यमंत्री ने सलकनपुर मंदिर के विस्तारीकरण और विकास कार्यों की समीक्षा की मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अधिकारियों से कहा है कि सलकनपुर में विजयासन माता की कृपा से जो काम चल रहे है, उन्हें जारी रखते हुए श्री महाकाल लोक की तर्ज पर माता के शास्त्र सम्मत सभी स्वरूपों के श्रद्धालु दर्शन कर सकें ऐसा नया प्रस्ताव भी प्रस्तुत करें। मुख्यमंत्री  चौहान ने शुक्रवार को सलकनपुर मंदिर परिसर का अवलोकन करने के बाद मंदिर के निर्माण और विकास कार्यों की समीक्षा बैठक में अधिकारियों को यह निर्देश दिए। सांसद  रमाकांत भार्गव, सलकनपुर ट्रस्ट के अध्यक्ष महेश उपाध्याय और सदस्य उपस्थित थे। मुख्यमंत्री के समक्ष वर्तमान निर्माणाधीन कार्यों का प्रजेंटेशन भी किया गया। मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि विद्वान, पंडित और शास्त्रियों से चर्चा की जाए, जिससे सभी कार्य धर्म और विधि सम्मत हो। मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि उनका विचार है कि माता के देश भर में स्थापित 52 शक्ति पीठों के चित्र रूप में दर्शन और कथा दीवारों पर उकेरी जाए।इसी तरह माता विजयासन की सभी 6 बहिन और माता के नौ रूप भीत्ति चित्र या अन्य कलात्मक रूप से चित्रित किये जाएँ। मुख्यमंत्री ने कहा कि परिसर में दुर्गा सप्तशती महात्म की कथा भी उकेरी जा सकती है। उन्होंने इस बात का विशेष ध्यान रखने के लिए कहा कि पूजा पूर्व अनुसार ही विजयासेन माता की ही हो। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि माता के मंदिर तक श्रद्धालुओं के आवागमन के लिए पृथक-पृथक मार्ग बनाने के साथ ही रोप-वे से यात्रियों की संख्या और फेरे बढ़ाने के प्रयास किए जाएँ। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि पूरे परिसर में होने वाले निर्माण के कुल क्षेत्र की जानकारी संकलित कर दो-तीन सप्ताह में नया प्लान प्रस्तुत करें। उन्होंने कहा कि नवंबर के अंतिम सप्ताह में फिर बैठक होगी। सलकनपुर तक के पहुँच मार्ग आदि के लिए भी निर्देश दिए गए। बैठक में वन, संस्कृति, लोक निर्माण विभाग के प्रमुख सचिव एवं सचिव, संभागायुक्त, आईजी सहित अधिकारी मौजूद थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 October 2022

25 लाख लोगों को दिया 8 माह में स्व-रोजगार, एक लाख को देंगें सरकारी नौकरी : मुख्यमंत्री

  2 लाख युवाओं को हर माह जोड़ा जा रहा है स्व-रोजगार से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मध्यप्रदेश के युवाओं को आश्वस्त किया है कि हर माह दो लाख युवाओं को स्व-रोजगार दिया जाएगा। मुख्यमंत्री गुरूवार को सीहोर जिले के बुदनी में 26 औद्योगिक संरचनाओं का लोकार्पण और भूमि-पूजन करने के बाद समारोह को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री चौहान ने हितग्राहियों को स्व-रोजगार योजना के चैक और स्वीकृति-पत्र वितरित किए। सुक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री ओमप्रकाश सखलेचा, सीहोर जिला प्रभारी और लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभूराम चौधरी, सांसद  रमाकांत भार्गव सहित जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे। मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि युवाओं को आगामी एक वर्ष में एक लाख शासकीय सेवाओं में नौकरी दी जायेगी। साथ ही शासन की विभिन्न योजनाओं में  रोजगार और स्व-रोजगार भी उपलब्ध कराया जायेगा। उन्होंने बताया कि प्रदेश में पिछले 8 माह में ही 25 लाख युवाओं को स्व-रोजगार से जोड़ा जा चुका है। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि तकनीकी और कुशल युवा उद्योग लगाने के लिए आगे आए। मुख्यमंत्री ने युवाओं से आहवान किया कि युवाओं के लिए ही बनाई गई मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना से 50 लाख रूपये तक का अपना स्व-रोजगार शुरू करें। मध्यप्रदेश सरकार ऋण की गारंटी देगी। साथ ही 3 प्रतिशत ब्याज अनुदान भी दिया जाएगा।   मुख्यमंत्री चौहान ने क्लस्टर आधारित उद्योगों की परिकल्पना का उल्लेख करते हुए कहा कि एक जगह पर अनेक उद्यमियों के समूह से उत्पादन और रोजगार का बड़ी संख्या में सृजन होना है। मुख्यमंत्री ने बुरहानपुर, इंदौर, भोपाल और नीमच के कलस्टर डेवलपर्स से वर्चुअल संवाद कर उनके उत्पाद और उनके द्वारा दिये जाने वाले रोजगार की जानकारी ली। उन्होंने सभी डेवलपर्स प्रति आभार व्यक्त किया और नया कार्य शुरू करने की शुभकामनाएँ दी।   मुख्यमंत्री चौहान ने हाल ही में मध्यप्रदेश के चीता स्टेट बनने का उल्लेख करते हुए कहा कि हम पहले से टाइगर और तेंदुआ स्टेट है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में पर्यटन क्षेत्र में भी बड़े पैमाने पर रोजगार के अवसर पैदा किए जाएंगे। मुख्यमंत्री चौहान ने कलस्टर के साथ आजीविका मिशन की गतिविधियों का उल्लेख करते हुए नागरिकों का आहवान किया कि चीन सहित दुनिया के अन्य उत्पादों के स्थान पर स्थानीय उत्पाद खरीदें। उन्होंने कहा कि बुदनी में 20 करोड़ रूपये की लागत से प्रारंभ हुए खिलौना कलस्टर के खिलौनों की धूम दुनिया में होगी। भोपाल में दवा, बुरहानपुर में कपड़ा, इंदौर में फर्नीचर सहित अन्य सभी जिलों में भी कलस्टर उद्योग आधारित उदाहरण बनेंगे।   बुधनी में खुलेगा मेडिकल कॉलेज   मुख्यमंत्री चौहान ने बुदनी में मेडिकल कॉलेज खोलने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि इससे नर्मदापुरम संभाग के नागरिकों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएँ मिल पाएंगी। उन्होंने बुदनी क्षेत्र में फोर लेन सड़कों के निर्माण का उल्लेख करते हुए कहा कि बुदनी के आस-पास आवागमन की बेहतर सुविधाओं से और भी उद्योग आयेंगे, जिनसे पूरा क्षेत्र समृद्ध होगा। मुख्यमंत्री  चौहान ने नागरिकों से उज्जैन "महाकाल लोक" के आगामी 11 अक्टूबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किए जाने वाले लोकार्पण कार्यक्रम में सहभागिता की अपील की। उन्होंने मंदिरों को सजाने, संवारने, दीप जलाने, भजन कीर्तन आदि करने की अपील की। सुक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री ओमप्रकाश सखलेचा ने कहा कि मुख्यमंत्री की परिकल्पना अनुसार प्रदेश में 41 क्लस्टर पर काम हो रहा है। इनसे बड़ी संख्या में प्रदेश के युवाओं को रोजगार मिलेगा और करोड़ों रूपये का निवेश भी आएगा। उन्होंने मुख्यमंत्री को आश्वस्त किया कि उनकी घोषणा के अनुरूप हर माह दो लाख से अधिक युवाओं को स्व-रोजगार योजनाओं से जोड़ा जाएगा। मुख्यमंत्री चौहान ने युवाओं  को रोजगार देने के लिए कार्यक्रम स्थल पर  विभिन्न कंपनियों द्वारा लगाए गए स्टॉल का निरीक्षण किया। उन्होंने कंपनियों के प्रतिनिधियों से रोजगार प्रदान करने की प्रक्रिया की जानकारी ली। रोजगार दिवस पर गुजरात, राजस्थान और मध्यप्रदेश के सीहोर, इंदौर, देवास, रायसेन सहित अनेक जिलों की 21 कम्पनियों ने अपने स्टॉल लगाए। कार्यक्रम स्थल पर क्षेत्र की महिला स्व-सहायता समूह द्वारा उत्पादित सामग्री की प्रदर्शनी भी लगाई गई थी। मुख्यमंत्री ने सभी स्टॉलों पर जाकर ग्रामीण महिलाओं का उत्साह बढ़ाया। कार्यक्रम प्रारंभ में मुख्यमंत्री चौहान ने दीप प्रज्ज्वलन और कन्या-पूजन भी किया। मुख्यमंत्री  चौहान ने किया 26 औद्योगिक संरचनाओं का भूमि-पूजन और लोकार्पण रोजगार दिवस पर दो लाख से अधिक युवाओं को उपलब्ध कराये स्व-रोजगार के अवसर बुदनी में हुआ राज्य स्तरीय रोजगार दिवस समारोह

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 September 2022

सीएम शिवराज ने ग्राम पंचायत तालपुरा में मुख्यमंत्री डेयरी प्लस योजना का किया शुभारंभ

  मंच से ही आवेदकों की समस्याएँ सुन कर निराकरण के दिए निर्देश मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधनी विकासखंड की ग्राम पंचायत तालपुरा में मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान के शिविर में मुख्यमंत्री डेयरी प्लस योजना का शुभारंभ किया। उन्होंने आवेदकों से चर्चा कर उनकी समस्याओं को सुना और आवेदनों का निराकरण करने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने हितग्राहियों को स्वीकृति-पत्र एवं सामग्री का प्रतीक स्वरूप वितरित किया। मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान शिविर आमजनों को योजनाओं से लाभान्वित करने के लिए ही लगाए जा रहे हैं। इन शिविरों से सभी पात्र हितग्राहियों को योजना का लाभ मिले, इसके लिए विशेष शिविर लगायें। मुख्यमंत्री ने जन सेवा अभियान शिविर में विभिन्न योजनाओं से लाभांवित हितग्राहियों को प्रमाण पत्र प्रदान किए। मुख्यमंत्री चौहान ने 'मुख्यमंत्री डेयरी प्लस योजना' का शुभारंभ भी किया। उन्होंने चिन्हित हितग्राहियों से संवाद कर उनके पशुपालन व्यवसाय के संबंध में जानकारी प्राप्त की। योजना में हितग्राहियों को दो मुर्रा भैंस प्रदाय की गई हैं। मुख्यमंत्री  चौहान ने मुख्यमंत्री डेयरी प्लस योजना से लाभांवित हितग्राही कमल किशोर पंवार, राकेश कटारे, रामकिशोर अहिरवार सहित अन्य पशुपालकों से संवाद कर उनका हालचाल जाना और उनके व्यवसाय की जानकारी ली। मुख्यमंत्री चौहान ने शिविर में लाभान्वित हितग्राहियों से भी संवाद कर योजना के लाभ प्राप्ति के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने मंच पर प्रश्नोत्तरी संवाद कर शिविर में आए आवेदनों के निराकरण तथा योजनाओं से वंचित पात्र हितग्राहियों के बारे में भी जाना। मुख्यमंत्री चौहान ने तालपुरा सहित अन्य चार ग्राम पंचायतों में विशेष राजस्व शिविर लगा कर राजस्व संबंधी प्रकरणों का शत-प्रतिशत निराकरण कराने के निर्देश भी दिए। उन्होंने ग्राम पंचायत तालपुरा में नवीन उचित मूल्य दुकान खोलने के निर्देश भी दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री किसान कल्याण योजना एवं मुख्यमंत्री किसान सम्मान निधि के पात्र किसानों को लाभ दिलाया जाना सुनिश्चित करें। सीहोर जिले के प्रभारी और लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी, पशुपालन सामाजिक न्याय एवं निःशक्तजन कल्याण मंत्री  प्रेमसिंह पटेल, लघु, सूक्ष्म, मध्यम उद्योग मंत्री  ओमप्रकाश सखलेचा, सांसद रमाकांत भार्गव सहित जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।   मुख्यमंत्री डेयरी प्लस योजना   डेयरी व्यवसाय से प्रदेश के किसानों की आय में वृद्धि हो और वे पशुपालन कर अधिक से अधिक आय अर्जित कर सके, इसके लिए मुख्यमंत्री डेयरी प्लस योजना का शुभारंभ किया गया है। पायलेट प्रॉजेक्ट के तौर पर योजना प्रदेश के तीन जिलों सीहोर, विदिशा और रायसेन में शुरू की गई है। पहले से ही पशुपालन का कार्य कर रहे पशुपालकों को मुख्यमंत्री डेयरी प्लस योजना में दो मुर्रा भैंसे उपलब्ध कराई जा रही है। इनकी दुग्ध उत्पादन क्षमता 10 लीटर प्रतिदिन की होती है। मुर्रा भैंसों की लागत दो लाख 50 हजार रूपए होगी। योजना में अनुसूचित जाति एवं जनजाति के पशुपालकों को राज्य सरकार द्वारा 75 प्रतिशत अनुदान एवं पिछड़ा वर्ग और सामान्य श्रेणी के पशुपालकों को 50 प्रतिशत का अनुदान दिया जाएगा। इस प्रकार अनुसूचित जाति एवं जनजाति के पशुपालकों को अंशदान के रूप में 62 हजार 500 रूपए तथा पिछड़ा वर्ग और सामान्य श्रेणी वालों को एक लाख 50 हजार रूपए जमा करने होंगे। इसमें पशुपालकों के आने-जाने का व्यय एवं बीमा आदि की राशि भी शामिल है। ग्राम पंचायत तालपुरा में खुलेगी नवीन उचित मूल्य की दुकान

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 September 2022

सीहोर में बारिश के चलते नर्मदा तटीय में अलर्ट

  दो दिन स्कूलों , आगनबाड़ी में अवकाश घोषित   प्रदेश में लगातार तेज बारिश हो रही है। जिसके चलते कई जिलों में लोगों का जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है। वहीं  मौसम विभाग ने सीहोर जिले को अलर्ट घोषित किया है। सीहोर जिले के नर्मदा तटीय बुदनी, रेहटी, नसरुल्लागंज क्षेत्र के नर्मदा किनारे निचली बस्तियों के 20 से अधिक गावों में लगातार हो रही भारी बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त है। लगातार नर्मदा का जलस्तर बढ़ने से खतरे के निशान तक पहुंच गई है।  बरगी और तवा बांध के गेट खोलने से नर्मदा नदी का जलस्तर बढ़ने लगा है। जिसको देखते हुए कलेक्टर चंद्र मोहन ठाकुर ने सभी नागरिकों से बाढ़ प्रभावित और जलभराव वाले संभावित निचले स्थानों से सुरक्षित ऊंचे स्थानों की ओर जाने की अपील की है। चौरसाखेड़ी व डिमावर गांव को खाली कराने की तैयारी की जा रही है। जिले के कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर ने जिला प्रशासन और पुलिस के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि नागरिकों की सुरक्षा को देखते हुए आगामी समय में बाढ़ प्रभावित और जलभराव वाले संभावित स्थानों, ग्रामों के नागरिकों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जाए। उन्होंने  सभी नागरिकों से अपील की है कि लगातार हो रही वर्षा के कारण जिन पुल, पुलियों, रपटों के ऊपर पर पानी बह रहा हो, उन्हें पार नहीं करें। बहुत आवश्यक होने पर ही घर से बाहर निकले और उन मार्गों से नहीं जाएं जिन मार्गों की नदी नालों पर बने पुलों पर पानी होने के कारण सुरक्षा की दृष्टि से बंद किया गया है। आवश्यक होने पर आवागमन के लिए सुरक्षित मार्गों का उपयोग करें। 16 और 17 अगस्त को जिले के सभी शासकीय अशासकीय स्कूलों के लिए अवकाश घोषित किया है। साथ आगनबाड़ी की भी छुट्टी के निर्देश दिए हैं। आपको बता दें बरगी व तवा के गेट खुलने से नीलकंठ गांव खाली कराने की तैयारी में प्रशासन जुटा हुआ है। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 August 2022

सिरोंज में मिले दो विदेशी संदिग्ध

  दोनों के पास से ईरान का पासपोर्ट    विदिशा के सिरोंज में पुलिस ने दो विदेशी संदिग्धों को हिरासत में लिया है। दोनों के पास से ईरान का पासपोर्ट है। दोनों संदिग्धों के पास भारत का टूरिस्ट वीसा मिला है। जिससे ये पता चला है कि दोनों पति पत्नी हैं। पुलिस ने मामले में जांच शुरू कर दी है।  पुलिस दूतावास से भी इनकी जानकारी ले रही है। बताया जा रहा है कि सोमवार रात थाना सिरोंज में ये दोनों विदेशी एक ज्वेलर्स की दुकान में खरीदारी करने गए थे।  यहां दोनों का दुकानदार से विवाद हो गया। विदेशी लोगों को देखकर वहां भीड़ जमा हो गई। किसी के द्वारा  पुलिस को इसकी सूचना दी गई। दुकानदार का आरोप है कि दोनों विदेशी खरीदारी के बहाने पैसे चुराने की घटना को अंजाम देने की कोशिश कर रहे थे। पुलिस उन्हें थाने लेकर आई जहां उनके पास ईरानी पासपोर्ट, भारत के टूरिस्ट प्लेस की एक सूची और वीसा मिला है।  ये  ट्रैवल वीसा पर भारत आना बताया। एसपी मोनिका शुक्ला ने बताया कि  ईरान दूतावास और इमीग्रेशन डिपार्टमेंट को भी इसकी सूचना देकर उन व्यक्तियों के द्वारा दी गयी जानकारी को वेरिफाई किया जा रहा है। वही पूरे मामले में गृहमंत्री डॉक्टर नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि विदेशी लोगों के मिलने की सूचना मिली है। मामले की जांच की जा रही है। दोनों के पास से ईरान के अल बुर्ज का पासपोर्ट, और अमेरिका, ईरान समेत अन्‍य देश की करंसी मिली है। उनकी उम्र करीब 50 वर्ष है। जिस टैक्सी से वे आये थे उसके ड्राइवर का मोबाइल नंबर बन्द आ रहा है, उसकी भी जांच कराई जा रही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 August 2022

सीहोर में पंचायत चुनाव के बाद पंच से मारपीट

  मारपीट का वीडियो वायरल , मामला दर्ज हुआ    सीहोर में  जिला पंचायत के लिए अध्‍यक्ष और  उपाध्‍यक्ष का चुनाव हुआ।  जीत को लेकर ग्राम बरखेड़ा हसन में  जुलूस निकाला गया। जिसमें त्रिस्तरीय चुनाव में भाजपा समर्थित हारे हुए प्रत्याशी के समर्थक भी शामिल हुए। इन समर्थकों ने पंचायत भवन के सामने आतिशबाजी की। जिसके बाद पंचायत में मौजूद कर्मचारियों और पंचों ने इसका विरोध किया। जिसको लेकर  कहा-सुनी हुई और इसके बाद  हाथपाई शुरू हो गई। फिर लाठियां चली। मारपीट का वीडियो सोशल मीडिया में जमकर  इस घटना का वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो रहा है। बताया जा रहा है कि पंच राकेश राजपूत पंचायत भवन में सोनू सेन और सहायक सचिव महेश लोधी के साथ थे। इस दौरान ही भाजपा समार्थितों का जुलूस पंचायत भवन के सामने से निकला और दोनों पक्षों के बीच कहा-सुनी हुई। तभी हेमराज लोधी, सूरज सिंह लोधी और उसके बेटे लाठियां लेकर पंचायत भवन में आए और तोड़फोड़ करने लगे। वीडियो में आरोपित हेमराज लाठियां चला रहा था और कह रहा था कि मेरी सरकार है।  मुझे हराया तुमने, मैं जान से मार दूंगा। राकेश राजपूत ने बताया कि हम पंचायत भवन में बैठे थे। आरोपित पटाखे जला रहे थे। पटाखे पंचायत भवन में फेंकने लगे। मना करने पर मारपीट की। मामले को लेकर थाना अहमदपुर प्रभारी शैलेंद्र तोमर  आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया  है।   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 July 2022

sehore, Campaign , plant trees ,Hariyali Amavasya

सीहोर। महामंडलेश्वर श्री श्री 1008 ईश्वरानंद उत्तम स्वामी महाराज के नेतृत्व में नर्मदा परिक्रमा यात्रा के समापन अवसर पर रविवार को सीहोर जिले के नर्मदा आंवलीघाट में नर्मदा सेवा मिशन द्वारा नर्मदा संरक्षण एवं संवर्धन कार्यक्रम आयोजित किया गया। नर्मदा परिक्रमा में 182 यात्रियों द्वारा 3445 किलोमीटर की यात्रा 165 दिन में पूरी की गई। नर्मदा परिक्रमा का संयोजन तपन भौमिक द्वारा किया गया। इस मौके पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि नर्मदा परिक्रमा यात्रा जल संरक्षण और संवर्धन के लिए उपयोगी साबित होगी।   उन्होंने कहा कि नर्मदा अविरल कल-कल छल-छल बहती रहे, इसके लिए जरूरी है कि नर्मदा के दोनों तटों पर तथा नर्मदा के कैचमेंट एरिया में अधिक से अधिक पेड़ लगाए जाए। इसके साथ ही नर्मदा तट के किसान अपने खेतों में फलदार पेड़ लगाएं। मुख्यमंत्री ने कहा कि नर्मदा के पावन जल को दूषित होने से रोकने के लिए मल एवं गंदगी को नर्मदा में जाने से रोकना होगा। नर्मदा के कैचमेंट एरिया में जहां भी यूकेलिप्टस के पेड़ लगे होंगे, उन्हें हटाना होगा। यूकेलिप्टस पानी को अवशोषित कर धरती को बंजर बना देता है।   उन्होंने कहा कि साल के पेड़ अधिक से अधिक लगाए जाएंगे, क्योंकि साल के पेड़ अपनी जड़ों से पानी छोड़ते हैं, जो छोटी-छोटी धाराओं के रूप में नर्मदा में मिलता है और नर्मदा की धार को अविरल बनाता है। नर्मदा का संरक्षण और संवर्धन केवल सरकार अकेले के बस की बात नहीं है, इसके लिए पूरे समाज को मिलकर काम करना होगा।   मुख्यमंत्री ने कहा कि आगामी हरियाली अमावस्या के अवसर पर पेड़ लगाने का अभियान चलाया जाएगा। इस अभियान से पूरे समाज को जोड़ा जाएगा और हरियाली अमावस्या से हर रोज एक माह तक अधिक से अधिक पेड़ लगाए लगाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि जन अभियान परिषद पेड़ लगाने के स्थान और पेड़ की प्रजातियां निर्धारित करेंगे। उन्होंने उपस्थित लोगों को पेड़ लगाने और नर्मदा में गंदगी नहीं डालने का संकल्प भी दिलाया।   अमरकंटक के मेंकल पर्वत पर नही दी जाएगी निर्माण की अनुमति मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि नर्मदा के उद्गम स्थल अमरकंटक के मेंकल पर्वत पर किसी प्रकार के निर्माण की अनुमति नहीं दी जाएगी। अमरकंटक आने वाले पर्यटकों की सुविधा के लिए पर्वत के नीचे होटल, रेस्टोरेंट आदि के लिए अनुमति रहेगी। उन्होंने किसानों से अपील की है कि वे नरवाई न जलाएं। नरवाई जलाने से धरती की उर्वरता नष्ट होती है। कीटनाशकों का अत्यधिक प्रयोग मानव स्वास्थ्य के लिए खतरा है। उन्होंने कहा कि किसान प्राकृतिक खेती अपनाएं, शुरुआती दौर में वे कम भूमि पर प्राकृतिक खेती करें।   मुख्यमंत्री ने किसानों से कहा कि वह गाय पालन करें, इससे उन्हें प्राकृतिक खेती के लिए बड़ी मदद मिलेगी और सरकार की ओर से हर माह 900 रुपये गाय पालन के लिए दिया। अमृत सरोवर योजना के अंतर्गत नर्मदा के दोनों और अधिक से अधिक तालाब बनाना होगा इससे भूजल का स्तर बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि नर्मदा परिक्रमा से लोगों में जागरुकता आएगी, जो नर्मदा के संरक्षण एवं संवर्धन के लिए उपयोगी साबित होगी।   नर्मदा परिक्रमा जन जागरूकता के लिए महत्वपूर्णः वीडी शर्मा कार्यक्रम में सांसद एवं प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा ने कहा कि नर्मदा परिक्रमा जन जागरण के लिए बहुत महत्वपूर्ण है, इससे लोगों में मां नर्मदा के प्रति आस्था एवं उसके संरक्षण तथा संवर्धन की प्रेरणा मिलेगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार मां नर्मदा के संरक्षण और संवर्धन के लिए अपने स्तर पर कार्य कर रही है, लेकिन इससे लोगों का और समाज का जुड़ना जरूरी है।   165 दिन की यात्रा का अनुभव अद्भुत- महामंडलेश्वर ईश्वरानंद उत्तम स्वामी नर्मदा परिक्रमा यात्रा के प्रमुख महामंडलेश्वर श्री श्री 1008 ईश्वरानंद उत्तम स्वामी ने कहा कि इस 165 दिन की यात्रा का अनुभव बहुत अद्भुत है, इसे कम समय में व्यक्त करना संभव नहीं है। इस परिक्रमा से समाज में चेतना का संचार हुआ है, जो यात्रा के दौरान ही दिखाई दे रहा था। आमजन परिक्रमा यात्रा के सहयोग के लिए स्वप्रेरणा से आगे आ रहे थे।   कार्यक्रम में सांसद रमाकांत भार्गव, केंद्रीय राज्य मंत्री प्रहलाद पटेल, केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते, परिक्रमा यात्रा के संयोजक तपन भौमिक, भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय, मां कनकेश्वरी देवी तथा स्वामी राजेंद्र दास ने भी संबोधित करते हुए कहा कि नर्मदा की संरक्षण एवं संवर्धन के लिए सभी को मिलकर काम करना होगा।   मुख्यमंत्री चंपालाल के घर पहुंचे कार्यक्रम के बाद मुख्यमंत्री चौहान रेहटी तहसील के ग्राम मोगरा में चंपालाल मेहरा के घर पहुंचे। उन्होंने परिवार की कुशलता पूछी और योजनाओं की जानकारी ली। उन्होंने बच्चों को दुलार किया और परिजनों के साथ फोटो खिंचाई। मुख्यमंत्री ने बच्चों को पढ़ाई में कड़ी मेहनत करने और आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 May 2022

Sehore, Uncontrolled car ,off the road ,overturned in a pit

सीहोर। जिले के इछावर थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम चैनपुरा के पास गुरुवार को एक तेज रफ्तार कार अनियंत्रित होकर सड़क से उतरकर गड्ढे में जा गिरी और पटल गई। इस हादसे में तीन लोगों की मौत हो गई, जबकि तीन अन्य घायल हुए हैं। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को अस्पताल पहुंचाया। वहीं, मृतकों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर मामले को जांच में लिया।   सीहोर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गीतेश गर्ग ने बताया कि हादसा इछावर के ग्राम चैनपुरा के पास हुआ है। ग्राम चैनपुरा के पास एक कार अनियंत्रित होकर पलट गई, जिसमें सवार तीन लोगों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई, जबकि तीन लोग गंभीर घायल हो गए। जिन्हें स्थानीय लोगों की मदद से इलाज के लिए अस्पताल लाया गया है। फिलहाल मृतकों की पहचान नहीं हुई है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। बताया जा रहा है कि कार सवार लोग नीलबड़, इछावर के रहने वाले हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 April 2022

sehore, Chief Minister, inaugurated development works , Nasrullaganj

सीहोर। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि 21 अप्रैल से प्रदेश में कन्यादान योजना फिर से प्रारंभ की जाएगी औऱ गृहस्थी तथा विवाह की व्यवस्थाओं के लिए 55 हज़ार रुपये दिए जाएंगे। उन्होंने नसरुल्लागंज में औद्योगिक क्षेत्र बनाने औऱ नए उद्योग लगाने की घोषणा भी की। यह बात मुख्यमंत्री ने शनिवार को नसरुल्लागंज के गौरव दिवस पर नगर सभा को सम्बोधित करते हुए कही।   मुख्यमंत्री चौहान ने नसरुल्लागंज के गौरव दिवस को अगले वर्ष से 3 दिवसीय मनाए जाने की घोषणा करने के साथ नागरिको को नगर को देश का नम्बर एक नगर बनाने के लिए अनेक संकल्प भी दिलाए। इस अवसर पर उन्होंने अनेक हितग्राहियों को विभिन्न योजनाओं के तहत हितलाभ भी वितरित किए।   चौहान ने कहा कि नसरुल्लागंज तहसील को स्वच्छता के साथ ही वाटर प्लस घोषित कर छोटे नगरों की श्रेणी में पहले स्थान पर लाया जाएगा। उन्होंने कहा कि नगर को अधोसंरचना युक्त बनाने के लिए 38 करोड रुपये के निर्माण और विकास कार्यो का लोकार्पण और भूमिपूजन किया गया है। उन्होंने कहा कि कोरोना काल मे गरीबो के बिजली बिल की राशि माफ किये जाने का निर्णय लिया गया है और नसरुल्लागंज तहसील में ही गरीबो के 34 करोड़ के बिजली बिल माफ किये जायेंगे।   मुख्यमंत्री ने कहा कि 2 मई को लाडली लक्ष्मी दिवस भी मनाया जाएगा और सरकार लाडली लक्ष्मी के उच्च शिक्षा की 8 लाख तक की फीस भरेगी। मुख्यमंत्री चौहान ने महिलाओं विशेषतः बेटियो की सुरक्षा के प्रति अपनी सरकार की प्रतिबद्धता दोहराते हुए कहा कि बेटियों के जन्म पर उनके जन्मदिन पर खुशियां मनाई जाए।   उन्होंने कहा कि यदि समाज नशा नही करने का संकल्प ले तो सरकार भी शराब की दुकाने बंद कर सकती है। उन्होंने कहा कि उनका मानना है कि नशाबंदी के लिए समाज को सजग होकर संकल्प लेना पड़ेगा। मुख्यमंत्री ने नगर भृमण के दौरान मोची अरुण से हुई भेंट का उल्लेख करते हुए कहा कि गरीब और वंचितों की चिंता पूरी समाज को करना होगी। उन्होंने कहा कि ऐसे सभी परिवारों को पथ विक्रेता योजना से लाभ दिलाकर इन्हें आर्थिक रूप से सक्षम बनाया जाए। उन्होंने कहा कि स्वसहायता समूह और आजीविका मिशन की बहिनों को भी सशक्त बनाया जाएगा और उनके उत्पादों को बाजार उपलब्ध कराकर प्रयास किया जाएगा कि हर बहिन कम से कम 10 हज़ार रुपये माह आमदनी कर सके।   चौहान ने कहा कि समाज को मिलकर कुपोषण के कलंक से बच्चो को बचाना चाहिए। उन्होंने किसानों और सक्षम लोगो से आग्रह किया कि वे नगर की आंगनबाड़ी को बेहतर बनाये। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि अब गरीब के बच्चे आधुनिक सीएम राइज़ स्कूलों में पड़ेंगे और बस गांव-गांव जाकर बच्चो को स्कूल लाएगी। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि रोजगार भी सरकार की प्राथमिकता में है और 5 तारीख से प्रारम्भ हो रही उद्यम क्रांति योजना इस दिशा में मील का पत्थर साबित होगी।   मुख्यमंत्री ने नगर वासियों से आग्रह किया कि वे स्वयं विकास में सहभागी बने और प्रत्येक वार्ड स्तर पर 10-12 लोगों की समिति बनाकर सफाई सहित प्रत्येक कार्य की निगरानी करे। उन्होंने कहा कि नगर के विकास के लिए धन की कभी कमी नही रही है बस जनसहयोग से विकास और बेहतर हो जाता है। उन्होंने किसानों को आश्वस्त किया कि नसरुल्लागंज तहसील को जल्दी ही 100 प्रतिशत सिंचाई वाला बनाया जाएगा। इससे पहले उन्होंने नसरुल्लागंज का नाम गौरान्वित करने वाले युवाओं और नागरिको का प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मान भी किया। उन्होंने अनेक शासकीय योजनाओं के हितग्राहियों को हितलाभ भी वितरित किया। नगरसभा को प्रभारी मंत्री डॉ प्रभुराम चौधरी और सांसद रमाकांत भार्गव ने भी सम्बोधित किया।   कृषक संगोष्ठी भवन का लोकार्पण नसरूल्लागंज के गौरव दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री ने दो करोड़ की लागत से बने कृषक संगोष्ठी भवन का लोकार्पण किया। उन्होंने नगर परिषद द्वारा निर्मित सेल्फी पॉईन्ट का अवलोकन किया। इसके साथ ही उन्होंने भवन परिसर में पौधारोपण भी किया।   शासकीय महाविद्यालय में छात्र-छात्राओं से चर्चा मुख्यमंत्री ने शासकीय महाविद्यालय नसरुल्लागंज में छात्र-छात्राओं से चर्चा करते हुए कहा कि मां तुझे प्रणाम योजना फिर से शुरू करेंगे। इस योजना में बेटा-बेटी सरहद पर जाकर भारतीय सेना की देशभक्ति और समर्पण से प्रेरणा लेंगे। उन्होंने कहा कि किसी भी गरीब मां-बाप के प्रतिभावान बच्चे उच्च शिक्षा से वंचित नहीं रहेंगे। ऐसे बच्चों की फीस सरकार भरेगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 April 2022

  Sajjan Singh Verma

मिलकर काम करें कार्यकर्ता ,जनता महंगाई से परेशान   पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा  आष्टा में कांग्रेस कार्यकर्ताओं की मीटिंग में पहुंचे  ... जहाँ  उन्होंने सभी कार्यकर्ताओं से मिलजुल कर काम करने और पार्टी को मजबूत  करने की बात कही  |  आष्टा में कांग्रेस कार्यकर्ताओं की मीटिंग के दौरान  पूर्व कैबिनेट मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने कहा की  |  23 तारीख से आष्टा से जनता शिवराज सरकार के खिलाफ हल्ला बोलेगी  | उन्होंने कहा की जनता शिवराज सरकार और मोदी सरकार से काफी नाराज है | जनता महंगाई , बेरोजगारी को लेकर परेशान है  |  जिस तरह 2018 के चुनाव में जनता ने भाजपा को पटखनी दी थी | उसी तरह जनता को 2023 और 2024 के चुनाव का इंतज़ार है  | उन्होंने सभी पार्टी कार्यकर्ताओं को मिलजुलकर काम करने  और कांग्रेस को मजबूत करने की सलाह दी  | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 September 2021

 Water logging

प्रशासन की अनदेखी से जनता हुई परेशान   सीहोर के सिद्दीकगंज में सड़कों और गड्ढों में भरे पानी से जनता परेशान हो चुकी है  | कई बार प्रशासन को इसकी जानकारी दी गई लेकिन अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई  | वहीँ जलभराव से डेंगू , मलेरिया का खतरा  बना हुआ है  |  सिद्दीकगंज के वार्ड नंबर 4 में रोड न बनने के कारण काफी दिनों से  सड़क पर भारी मात्रा में पानी  इकठ्ठा हो गया है  |  जलभराव के कारण  लोगों को डेंगू मलेरिया होने का डर भी बना रहता है |  स्थानीय निवासियों के द्वारा सूचना देने के बाद भी इस पर अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है | जिससे जनता में काफी आक्रोश है | लोगों ने बताया की अब तक प्रशासन द्वारा जल निकासी के लिए कोई व्यवस्था नहीं की गई |  इसके साथ ही मलेरिया टीम ने भी इस स्थान की कोई सुध नहीं ली है  | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 September 2021

   Uma Bharti

साध्वी से हारने के बाद भी दिग्विजय को समझ नहीं आया बदजुबानी के कारण हिन्दू ,मुसलमान उनसे नफरत करते हैं   पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा की वरिष्ठ नेत्री उमा भारती ने  राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह के आरएसएस और तालिबान वाले बयान को लेकर कहा की  दिग्विजय सिंह की जीभ ही उनकी सबसे बड़ी दुश्मन है |  उमा भारती ने कहा दिग्विजय सिंह साध्वी प्रज्ञा से लाखों मतों से चुनाव हारे  है | फिर भी सीख नहीं ले रहे |  उमा भारती सीहोर में गणेश मंदिर में दर्शन करने पहुंची थीं |  पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने दिग्विजय सिंह के बयान को आड़े हाथों लेते हुए कहा की | दिग्विजय सिंह की बदजुबानी की  वजह से उनसे हिन्दू और मुसलमान दोनों नफ़रत करते  है |  दिग्विजय सिंह की जीभ ही उनकी सबसे बड़ी दुश्मन है |  दिग्विजय का और कोई दुश्मन नहीं है | साध्वी प्रज्ञा से चुनाव हारने के बाद भी उन्हें समझ नहीं आया  |  उन्होंने कोई सीख नहीं ली  | अफगानिस्तान को लेकर उन्होंने कहा भाग्य की बात है की  जिस समय तालिबानी आये उस समय भारत में नरेंद्र मोदी जैसे प्रधानमंत्री है  | तालिबान संकट का देश में कोई प्रभाव नहीं होगा | क्योंकि देश का नेतृत्व मोदी जैसे मजबूत नेता के हाथ में है  | इस दौरान उन्होंने असदुद्दीन ओवैसी को लेकर कहा की  | ओवैसी से देश में सबसे ज्यादा मुसलमानो को ही नुकसान हो रहा है  | ओवैसी को समझना चाहिए की उनके पिता की तरह वे बने |  बांटने की राजनीति ना करें  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 September 2021

 girl welcome

लोगों ने वरघोड़ा निकालकर किया नन्ही बालिका का स्वागत   आष्टा में नन्ही बालिका समृद्धि देशलहरा ने आठ उपवास की कठिन तपस्या की इस दौरान बड़ी संख्या में लोगों ने समृद्धि देशलहरा का स्वागत और सम्मान किया  | साधु साध्वियों के पावन वर्षायोग की स्थापना के साथ  आत्म कल्याण और विश्व शांति की मंगल कामना लिए श्रद्धालुओं ने व्रत उपवास और कठोर तपस्या करना शुरू  कर दिया है | चातुर्मास के लिए विराजित 'अणु वत्स '  पूज्य संत मुनि जी की निष्ठा में  समृद्धि देशलहरा ने कठोर अठ्ठाई तप की साधना की इस मौके पर  ग्राम मगरदा सिद्दीकगंज में समृद्धि देशलहरा का  स्वागत किया गया |  लोगों ने  वरघोड़ा निकाल कर समारोह  आयोजित  किया  |  लोगों ने  धर्म के सिद्धांत और वैज्ञानिक रीति नीति को वर्तमान परिवेश में सभी के लिए हितकारी बताया | और  देशलहरा परिवार को बधाई दी  गौरतलब है की समृद्धि ने मात्र आठ वर्ष की आयु मे आठ दिन लगातार निराहार रहकर  उपवास किया है | उन्होंने कठिन तपस्या कर अन्य लोगों को भी प्रेरणा दी है  |  इस अवसर पर विधायक रघुनाथ सिंह मालवीय, जनपद प्रधान धारा सिंह पटेल सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे  | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 July 2021

 ACCIDENT

ट्रक के नीचे दबने से  कार हुई चकनाचूर   सीहोर में क्रीसेंट पार्क के पास एक  भीषण  सड़क हादसा हो गया  | कृषि के सामान से भरा ट्रक पलट कर कार पर गिर गया | जिससे ट्रक के नीचे दबने से कार में सवार पति पत्नी की घटना स्थल पर ही मौत हो गई  |  इंदौर-भोपाल रोड पर झागरिया जोड़ के पास एक कृषि के सामान से भरा ट्रक पलट कर कार पर गिर गया |  जिससे  ट्रक के नीचे दबने से कार में सवार अधिवक्ता राजेंद्र रैना और उनकी  पत्नी विभा रैना की घटना स्थल पर ही मौत हो गई |  तीन क्रेन और एक बुलडोजर की मदद से ट्रक को उठाया गया |  इसके बाद कार से मृतकों के शवों को बाहर निकाला जा सका |  पुलिस ने आरोपी ट्रक चालक के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है |  बताया जा रहा है की कार  भोपाल की तरफ से जा रही थी |  वहीं ट्रक  इंदौर की तरफ से आ रहा था  | और झागरिया की तरफ मुड़ रहा था  |  ट्रक चालक ने मुड़ते समय ब्रेक लगाया | इसी दौरान कार ट्रक से टकरा गई |  जिससे दोनों अनियंत्रित हो गए  | ट्रक में वजन ज्यादा होने के कारण वो पलट गया  |  और  कार उसके नीचे दब कर चकनाचूर हो गई  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 July 2021

 collector visit

सभी लगवाएं कोरोना से बचाव का टीका   सीहोर कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर ने सिद्धिकगंज का दौरा कर सभी अधिकारियों कर्मचारियों से कहा कि कोरोना से बचाव के लिए सभी वैक्सिन जरूर लगवाएं और अन्य लोगों को भी वैक्सिन लगाए जाने के लिए प्रेरित करें  |  कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर ने  सिद्धिक गंज  ग्राम पंचायत में डॉक्टर एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्ता की मीटिंग रखी और कहां की सभी को कोरोना से सतर्क रहना है |  सभी  कोरोना वैक्सीन लगवाएं और   सभी को अनिवार्य रूप से   वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित करें |  सभी एकजुट होकर मोहल्ले वार जाएं और  लोगों को समझाइश दें |  कलेक्टर ने हॉस्पिटल का दौरा किया और व्यवस्थाओं का जायजा लिया  | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 June 2021

 HATYA

हत्या करने वाला  वेंडर भोपाल में गिरफ्तार वेंडर और मृतक युवती में रही है दोस्ती   इंदौर से बिलासपुर जा रही नर्मदा एक्सप्रेस में मंगलवार रात को हुई एक युवती मुस्कान हाड़ा की सनसनीखेज हत्या के आरोपी  सागर सोनी को पुलिस नेे भोपाल से गिरफ्तार कर लिया  | इस घटना में वेंडर सागर सोनी का नाम सामने आया था ,   वेंडर और युवती एक-दूसरे से परिचित है तथा इसी कारण युवती अपने पति से अलग रह रही थी  | लेकिन युवती के जीवन में किसी तीसरे व्यक्ति के आने से नाराज सागर ने उसकी हत्या कर दी |  इंदौर से मुस्कान अपनी सहेली प्रियंका से मिलने के लिए भोपाल जा रही थी, जो एक शॉपिंग मॉल में सेल्स गर्ल है |   प्रियंका ने मुस्कान को नौकरी के लिए भोपाल बुलाया था  | भोपाल पुलिस ने बताया कि सागर इंदौर रेलवे स्टेशन पर हॉकर है और उसका मुस्कान से प्रेम प्रसंग चल रहा था |   कुछ दिनों पहले मुस्कान की तीसरे लड़के से दोस्ती हो गई थी | इस बात से सागर नाराज था  | और यही कारण हत्या की वजह बना    मुस्कान नर्मदा एक्सप्रेस के डी-3 कोच में सवार होकर सहेली से मिलने भोपाल आ रही थी  |  इसी दौरान मुस्कान पर चाकू से हमला कर उसकी  हत्या कर दी  गई  |  ट्रेन में सवार अन्य यात्रियों की खून से लथपथ इस युवती पर नजर पड़ी तो पुलिस को सूचना दी |  इसके बाद सीहोर स्टेशन पर पुलिस ने ट्रेन को रोककर शव नीचे उतारा और पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल पहुंचाया |  पुलिस के अनुसार ट्रेन में मृत पड़ी मुस्कान को यात्रियों ने देखा तो अफरा-तफरी मच गई थी  | एसपी एसएस चौहान ने पुलिस अमले के साथ मौके पर पहुंचकर मुआयना किया  |  जिस समय यह घटना हुई तब कोच के अंदर दो दर्जन से अधिक यात्री थे  |  पुलिस जांच में पता चला कि सागर शुजालपुर से ट्रेन में सवार हुआ था और बातचीत के दौरान विवाद के बाद उसने घटना को अंजाम दे दिया  | गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा और सीहोर पुलिस ने भी घटना में सागर सोनी का नाम लिया है |  हत्या की सूचना के बाद  इंदौर की एरोड्रम पुलिस ने देर रात मुस्कान के पति कपिल को हिरासत में  लिया  | पेशे से रिक्शा चालक कपिल से पूछताछ में पुलिस को उसकी कोई भूमिका नजर नहीं आई  |  कपिल ने पुलिस को बताया कि उसका मुस्कान से तलाक का केस चल रहा है और वह उससे काफी समय से अलग ही रहता है | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 June 2021

 Collector Appeal

कोरोना नियमों का पालन ,टीकाकरण में करें सहयोग    कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सीहोर कलेक्टर अजय गुप्ता ने लोगों से कोरोना नियमों का पालन करने की अपील की |  इस दौरान उन्होंने कहा की लोग टीकाकरण में भी सहयोग करें  | कोरोना टीका ही कोरोना से बचने का एक माध्यम है  |  कोरोना के आंकड़े लगातार बढ़ रहे हैं  |  जिसको लेकर  सीहोर कलेक्टर अजय गुप्ता ने लोगों से अपील करते हुए कहा की  | कोरोना से बचने के लिए सभी मास्क लगाएं  और कोरोना नियमों का पालन करें  |  सोशल डिस्टेंसिंग के साथ भीड़ भाड़ वाली जगहों में जाने से बचें  | उन्होंने कहा की जिनकी उम्र 45 से ऊपर है वे कोरोना टीका नियम अनुसार जरूर लगवाएं  |  कोरोना के टीके से ही कोरोना से बचा जा सकता है  | लोग टीकाकरण में सहयोग दें  |  जिससे कोरोना जैसी महामारी से निजात मिल सके | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 April 2021

 Station charge suspended

कार्य मे लापरवाही बरतने का है आरोप   सीहोर के सिद्दिकगंज थाने में पदस्थ टीआइ माधोसिंह कनेश को काम में लापरवाही बरतने पर निलंबित कर दिया गया है | इनके खिलाफ एसपी को कई शिकायतें मिल रही थीं  | ग्राम देवली में 18 मार्च को एक युवती  अपने घर में आग से जल गई थी जिसकी उपचार के दौरान भोपाल में मौत हो गई |  इस मामले में सिद्दिकगंज टीआइ की बड़ी लापरवाही सामने आने पर एसपी एसएस चौहान ने सिद्दिकगंज टीआइ माधोसिंह कनेश व एसआई श्यामसिंह सूर्यवंशी को निलंबित कर दिया | वहीं एक अन्य मामले में दो आरक्षकों को लाइन अटैच किया  गया है |  देवली में एक 16 वर्षीय आदिवासी युवती ने अपने घर मे  जल गई थी |  मृतिका की मां का आरोप है मेरी बेटी जली नहीं जलाई गई थी |  घटना के बाद उसे आष्टा से सीहोर और सीहोर से भोपाल रेफर किया गया था | जहां 21 मार्च को इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई | इस गम्भीर मामले में मृतिका की मृत्यु पूर्व बयान न होना, मामले में प्रकरण दर्ज करने में देरी, मां द्वारा मामले में कार्रवाई नहीं करने की शिकायत करने जैसी बड़ी लापरवाही सामने  आने पर एसपी एसएस चौहान ने मामले को अति गंभीरता से लिया तथा कार्य के प्रति लापरवाही बरतने वाले सिद्दिकगंज थाना प्रभारी माधोसिंह कनेश, एसआई श्यामसिंह सूर्यवंशी को   निलंबित कर दिया | वहीं एक अन्य मामले में सिद्दिकगंज थाने के दो आरक्षकों को भी एसपी द्वारा लाइन अटैच किया है | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 April 2021

 Flag worship

कई प्रतिष्ठानों ने किया परिसर में झंडावंदन   आष्टा में  गणत्रंत्र दिवस को बड़ी धूम धाम से मनाया गया |  इस मौके पर कई संस्थानों  ने अपने परिसर में झंडावंदन किया  |  मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी सेवादल ने गणतंत्र दिवस पर झंडावंदन किया |  इस दौरान   अध्यक्ष माखन चौहान , महासचिव अंजीश वर्मा सहित  कई कार्यकर्ता मौजूद रहे  | इसी के साथ  सिद्दीकगंज केमिस्ट एसोसिएशन द्वारा भी  बस स्टैंड पर झंडा फहराकर राष्ट्र गान हुआ  | उधर  प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी डॉ सी एम स्नेही द्वारा परिसर में झंडा फहराया गया | जिसमे समस्त डॉक्टर और  व्यापारी बंधु शामिल हुए |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  27 January 2021

 Legislator absurd argument

कोरोना संक्रमण के आंकड़ो की नही है जानकरी   इछावर से बीजेपी के विधायक और पूर्व राजस्व मंत्री करण सिंह वर्मा ने  |  कोरोना मरीजों के आंकड़े को लेकर बेतुका बयान देते हुए  कहा की  ...  पचासी से नब्बे करोड़ लोग कोरोना से पीड़ित हैं | विधायक  वर्मा  मंच से कोरोना को लेकर भ्रम फैलाते नजर आये  |  सीहोर में भाजपा के पूर्व मंत्री करण सिंह वर्मा ने कोरोना के आंकड़े को लेकर ग्रमीणो को अजीब और गरीब दलील दी | इछावर विधायक करण सिंह ने बेतुका बयान देते हुए  कहा की  85 से 90 करोड़ लोग कोरोना से पीड़ित |  यह महामारी चीन से आई है |  पूर्व मंत्री के इस बयान से साफ़ पता चल रहा है की  उन्हें कोरोना मरीजों की संख्या का बिलकुल भी अंदाजा नहीं है  |  उनके पास कोरोना के मरीजों की जानकारी ही नहीं है  | कोरोना के इस संकट काल में जहाँ सभी जनप्रतिनिधियों की जवाबदारी है की वो जनता को सही सलाह और जानकारी दे |  लेकिन जब जनप्रतिनधि के पास ही सही जानकारी नहीं तो वे जनता को क्या सलाह देंगे |  बहरहाल ये तो वे ही बता पाएंगे की ये 90 करोड़ का आंकड़ा उनको कहाँ से प्राप्त हुआ | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 June 2020

Salkanpur Kapat

श्रद्धालुओं ने किये दर्शन  नियमों का किया पालन   कोरोना महामारी का ऐसा दुष्प्रभाव फैला की भक्तों को भगवन से भी दूर होना पड़ा  | ये महामारी भक्तों में ना फैले इसके लिए सरकार और मंदिर प्रबंधन ने भक्तों के आने पर रोक लगा दी थी  | जो लम्बे इन्तजार के बाद हटा दी गई हैं | अब भक्त भगवन के दर्शन लाभ प्राप्त कर सकेंगे  | लेकिन कुछ नियम बनाये गए हैं जिनका पालन भी करना पड़ेगा |  इसी क्रम में सलकनपुर देवी धाम के पट खुले सुबह 9 से शाम 5 तक खुले रहेंगे  | भक्त सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए माँ के दर्शन कर सकेंगे  |   सलकनपुर में माँ विजयासन मंदिर के कपाट  खुलने पर विदिशा बुदनी सांसद रमाकांत भार्गव ने भी दर्शन किये  | और प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बैठक रखी   | जिसमें जिला (सीहोर)कलेक्टर अजय गुप्ता ,पुलिसअधीक्षक  (सीहोर)शिसेन्द्र चौहान और पूरे  प्रशासनिक अधिकारियों मौजूद रहे |  मीटिंग में मंदिर की उचित व्यवस्था के निर्देश दिये साथ ही मंदिर में शासकीय गाइड लाइन सफलता से पालन करने को भी कहा |    आज पहले दिन श्रद्धालुओं की भी कमी देखी गई है | दर्शन व्यवस्था में मंदिर के गर्भगृह से दर्शन नही होंगे मंदिर में हाल से दर्शन की व्यवस्था की गई है  |  इसी के साथ डॉक्टरों की एक टीम भी मंदिर में मौजूद रहेगी जो सभी की जांच के बाद मंदिर में प्रवेश देगी |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 June 2020

 Fatal attack

पड़ौसी की जान लेना चाहता था पुलिसवाला गुंडों के साथ पुलिस वाले का पड़ौसी पर हमला पुलिस वाले को बचाने में लगी सीहोर की पुलिस   मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के गृहजिले सीहोर से एक पुलिसवाले की गुंडागर्दी का वीडियो जमकर वायरल हो रहा है |  ये पुलिस वाला अपने पड़ौसी की जान का दुश्मन बना हुआ है  | इसने अपने पड़ौसी पर जानलेवा हमला किया उसके बावजूद पुलिस  | पुलिस वाले को बचाने में लगी रही | जब घटना का वीडियो वायरल हुआ तो दिखावे के लिए गुंडई पर उतारू पुलिस वाले को सस्पेंड कर दिया गया है  |  मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के अच्छे कामों को एक पुलिस वाले ने ही पलीता लगा दिया |  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के गृहजिले सीहोर में गुंडागर्दी पर उतारू इस पुलिस वाले को बचाने के लिए पूरा पुलिस महकमा सक्रीय हो गया  था | वो तो अचानक पुलिस वाले उसके परिवार वाले और उसके भाड़े के लोगों का यह वीडियो वायरल हो गया  | जिसके बाद दिखावे के लिए पुलिस को इसके खिलाफ निलंबन की कार्यवाही करना पड़ी |  ये पुलिस वाला लम्बे समय से अपने पड़ौसी को इसलिए परेशान कर रहा था कि वो अपना मकान छोड़कर भाग जाएँ | और इसकी गुंडागर्दी के चलते ऐसा हो भी गया है | वैशाली नगर में रहने वाला पुलिस आरक्षक दरियाब सिंह  ने  अपने पड़ोसि पर गुंडे बुलवा कर रॉड और बंदूक और पत्थरों से हमला किया |  इन हमलावरों को जब लगा कि  यह सब सीसीटीवी कैमरे में कैद हो जाएगा तो इस गुंडा पार्टी ने सीसीटीवी कैमरों को तोड़ दिया | लेकिन इस सब के बावजूद यह घटनाक्रम रिकॉर्ड हो गया   | इस सब के बावजूद पुलिस ने पुलिस वाले की शिकायत पर पीड़ित पक्ष के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया |  बाद में मामले के तूल पकड़ने पर काउंटर fir  कर गुंडागर्दी करने वाले पुलिस वाले को निलंबित कर दिया गया  | दअरसल पीड़ित ओमप्रकाश चंद्रवंशी अपनी  पत्नी  ममता और दो बच्चों के साथ वैशाली नगर में  इस पुलिस वाले के घर के सामने रहता है |  वह देवास में SBI बैंक में  नौकरी  करता है | पिछले एक वर्ष से पुलिस वाला लगातार इनसे झगड़ रहा है  |  इसकी शिकायत भी पूर्व में की गई लेकिन पुलिस ने पुलिस वाले के खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिया  |  ममता ने बताया कि एक साल से पुलिस आरक्षक और उनकी  पत्नी गाली गलौज कर डराती है और धमकी देती थी कि मेरा कोई कुछ नही कर सकता  और बीते दिन पुलिस आरक्षक और आरक्षक की पत्नी के ने  मारपीट की तब इस मामले की शिकायत एसपी से की गई तब  एसपी ने पीड़ित परिवार को कैमरे लगाने की सलाह दी  | उसके बाद भी आरक्षक और उसके गुंडों ने चंद्रवंशी परिवार पर प्राणघातक हमला बोल दिया  |  यह पूरी घटना पास में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई |  लेकिन पुलिस ने कोई एक्शन नहींलिया  | जबकि सीसीटीवी कैमरे में साफ साफ दिख रहा है पुलिस आरक्षक की पत्नी और अन्य 3-4 युवको ने किस तरह रॉड और बंदूक से पीड़ित परिवार पर जानलेवा हमला किया  |  पीड़ित ओमप्रकाश की पत्नी ने बताया कि उनके पति विकलांग है सुनाई नही देता वह अपने घर मे अकेले बच्चों के साथ रहती है |  जिससे इस हमले से पूरा परिवार खोफ में है और डरा सहमा सा है और पुलिस आरक्षक के किये गए हमले के बाद यह परिवार घर छोड़कर अपने गांव गुडभेला में रह रहा है | पीड़ित परिवार का आरोप है  पुलिस  ने कोई बड़ी कार्यवाही नही की और उल्टा हमे ही डराया  धमकाया  जा रहा है | जब मुख्यमंत्री के गृह जिले में पुलिस ऐसी गुंडागर्दी कर रही है तो अंदाज लगाया जा सकता है बाकि जगह क्या हाल होगा |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 June 2020

 Spraying of SP sanitizer

सफाई कर्मीयो के लिए बजाई ताली   सीहोर में  कोरोना की जंग में सड़कों पर उतरे एसपी ने शहर  को सेनेटाइज करने में खुद मदद की |  उन्होंने सफाई कर्मीयो का सम्मान करने के लिए इन्हें  फूल भेंट  ताली बजाई और  लोगो को मॉस्क पहनने और सोशल डिस्टेंस मेंटेन करने की सलाह दी  |  कोरोना के फैलते संक्रमण से बचने के लिए सीहोर में एसपी ने मोर्चा संभालते हुए शहर  की मुख्य सड़कों  को सेनेटाइज किया  | साथ इस महामारी से निपटने अपनी ड्यूटी निभा रहे सफाई कर्मचारियो का फूल देकर माला पहनाकर और ताली बजाकर सम्मान किया  |  पुलिस अधीक्षक एसएस चौहान ने  मुख्य सड़क लिसा टाकीज और मेंन रोड पर सेनेटाइजर स्प्रे का छिड़काव किया  | एसपी एसएस चौहान ने कहा की पिछले कई दिनों से कोरोना से लड़ने हमारे सफाई कर्मी भाई बहन लगें हुए हैं  | सफाई कर रहे है |    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 April 2020

Lover couple beating

ग्रामीणों ने प्रेमी जोड़े को  पीटा और बाल भी काटे   सीहोर जिले के रेहटी थाना क्षेत्र के एक गांव में ग्रामीणों ने एक युवक और नाबालिग लड़की  को साथ घूमता देखकर जमकर पिटाई की  |  कैंची से युवक के बाल भी काट दिए  |  घटना करीब 15 दिन पुरानी है लेकिन सोशल मीडिया पर इसके वीडियो वायरल होने के बाद  इस मामले की पुलिस  से शिकायत की गई   रेहटी में एक  किशोरी कक्षा दसवीं की छात्रा है  वह और उसका करीब 19 साल का परमि युवक अक्सर साथ घूमा करते थे  | घटना वाले दिन किशोरी स्कूल में बैग रखकर युवक के साथ बाइक पर घूमने गई थी  |  करीब तीन घंटे बाद युवक उसे स्कूल छोड़ने आया, तब ग्रामीणों ने पकड़ लिया  | और  उनकी पिटाई की |  कुछ लोगों ने इस घटना का वीडियो बना लिए  | जो शनिवार  से  सोशल मीडिया पर वायरल होन शुरू हुआ  | वीडियो में युवक और किशोरी को लोग पीटते और डांटते नजर आ रहे हैं  | दोनों पीड़ित हाथ जोड़कर माफी मांगते रहे, लेकिन ग्रामीण नहीं माने |  एक ग्रामीण ने कैंची से युवक के बाल काट दिए  | तमाशबीन बने अन्य लोगों ने न तो बीचबचाव किया और न ही पुलिस को सूचना दी  | वीडियो वायरल होने के बाद शनिवार को दोनों पीड़ितों के  परिजनों ने थाने में शिकायत की  | जिस पर पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर मामला जांच में लिया |  यह घटना लगभग 15 दिन पुरानी बताई जा रही है |   पीड़ितों की शिकायत के बाद वायरल वीडियो के आधार पर अज्ञात लोगों पर केस दर्ज किया है | वीडियो के आधार पर पुलिस ने आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 February 2020

 Dead sign

वन विभाग का खेल,मृत व्यक्ति बना कारोबारी     वन विभाग में जो हो जाये सो कम है | आपको जानकर आश्चर्य होगा वन विभाग से इजाजत लेकर मुर्दे भी काम करते हैं  |   एक ऐसा मामला सामने आया है जहाँ एक पांच साल पहले मर चुका व्यक्ति वन विभाग की इजाजत से व्यापार कर रहा है |  वन विभाग के अधिकारियों का एक बड़ा कारनामा सामने आया है  | एक व्यक्ति जिसकी मौत आज से 5 वर्ष पहले हो चुकी है  | वह बाकायदा वन विभाग के नियम अनुसार सरकारी फाइलों, दस्तावेजों में हस्ताक्षर करने समय समय पर आता था |  बाकायदा वन विभाग से मंजूरी लेकर अपना व्यापार कर रहा था    यह सोचकर शायद आपको हैरत हो लेकिन यह कारनामा सीहोर जिले की आष्टा तहसील में संभव हुआ,वन विभाग के जिम्मेदार अधिकारियों की मेहरबानी से,जहाँ आष्टा के ही निवासी मृतक अब्दुल रशीद की मौत 2014 में हो गई थी लेकिन  धन्य हो  वन विभाग के ऐसे अधिकारी जो कि अब  तक उसका नाम कागजों में जीवित रखे हुए   हैं |  मृतक अब्दुल रशीद के नाम से 2016-17 में सब्जी मंडी आष्टा स्थित आरा मशीन के नाम पर नवनिकरण हुआ  | 2014 से मृत व्यक्ति आकर कर   आवेदनों पर हस्ताक्षर कर रहा है | अब जांच की बात कहकर  और दोषी कर्मचारियों के खिलाफ बात कहकर अधिकारी मामले को चलता कर रहे हैं  |  आष्टा में अब्दुल राशिद की आरा मशीन है  | अब्दुल रशीद का इंतकाल 2014 में ही चुका है जिसका मृत्यु प्रमाण पत्र वन विभाग को उनके परिजनों द्वारा दे दिया गया था  |  मामले में रोचक स्थिति तब आई जब म्रतक अब्दुल रशीद 2014 से बराबर आकार अपनी आरा मशीन का नवीनीकरण वर्ष 2019 तक करवा  रहा  हैं  और नवीनीकरण के दास्तावेजो पर आकर अपने हस्ताक्षर भी कर रहे हैं |  इसके अलावा वन विभाग के कर्मचारियों द्वारा वार्षिक निरीक्षण पर भी उपस्थित होकर आरा मशीन में आने और जाने वाली जलाऊ लकड़ी का हिसाब भी उपलब्ध करा  रहे हैं  | अब सवाल ये उठता है कि जब नगर पालिका के दास्तावेजो के अनुसार अब्दुल रशीद की मृत्यु 2014 में हो गई थी तो फिर कैसे वन विभाग के दास्तावेजो में अब्दुल रशीद आकर अपने हस्ताक्षर कर रहे हैं |    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 February 2020

 BACHIYA OR BACHDE KI SADI

बछिया और बछड़ा बने दूल्हा- दुल्हन   एक बछिया दुल्हन बनी और बछड़ा बना दूल्हा  | सुनने में यह बड़ा अजीब लगता है |  लेकिन है सच  | इन दोनों की शादी में बाराती भी थे और बैंडबाजा भी  |  पूरे विधिविधान से यह  अनोखी  विवाह हुआ  |  सीहोर जिले के जावर तहसील के गांव करमनखेड़ी में एक बछिया और बछड़े की शादी का अनोखा मामला सामने आया  |  जिसमें दुल्हा गाय का बछड़ा तो दुल्हन गाय की बछड़ी थी, जबकि बाराती के रूप में ग्रामीण थे  |  बैंडबाजों के साथ जब  बारात निकली तो देखने वाले देखते ही रह गए  | करमनखेड़ी गांव में दो महीने पहले एक गाय का बछड़ा और बछिया बाहर से आ गए थे |  यह दोनों ही साथ में रहने लगे | जहां पर जाते वहां भी साथ में ही रहते थे  | दोनों के बीच का प्रेम देखकर ग्रामीण आश्चर्य में पड़ गए  .|  उनके इस प्रेम को देखने के बाद सभी ने मिलकर दोनों की शादी कराने का निर्णय लिया ग्रामीणों ने इसके लिए राशि एकत्रित की  | वहीं बकायदा गणेश पूजन के बाद दोनों को दुल्हा-दुल्हन बनाया गया  .|  गांव वालों ने पूरे विधि विधान से यह विवाह कराया गया  |  खास बात यह है कि शादी कराने के लिए पंडितों को बुलाया गया   |  विवाह के दिन वर पक्ष बछड़े की तरफ से अर्जुनसिंह ठाकुर बैंडबाजे के साथ बारात लेकर वधु पक्ष बछिया के तेजसिंह आचार्य के घर बारात लेकर पहुंचे  |  यहां बकायदा स्टेज सजाया गया था, जहां एक से बढ़कर एक नृत्य की प्रस्तुति देखने को मिली  |  उसके बाद वर और वधु  के अग्नि के  समक्ष सात फेरे करवाए गए  |  अनोखी शादी को जिसने भी देखा वह देखते ही रह गया    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 November 2019

 SAAPO  KI ADALAT

परम्परागत तरीके से लग रही है  सांपो की अदलात   इसे हम अंधविश्वास कह सकते हैं  | लेकिन ये लोगों की आस्था से जुड़ा विषय है  | मध्यप्रदेश के सीहोर में साँपों की अदलात लगती है .| लोगों का मानना है यहाँ नाग स्वंय मानव शरीर में आकर बताते है की उन्होने उसे क्यों  डसा था  |  इस आधुनिक वैज्ञानिक युग में इस तरह के मामलों को सिर्फ अन्धविश्वास कहा जा सकता है  |  लेकिन लोगों की आस्था के सामने सारे तर्क रखे रह जाते हैं  | भोपाल  से साठ किलोमीटर दूर  सीहोर  के  रसुलड़िया परिहार  में ऐसा नजारा देखने को मिलता है जिस पर आसानी से यकीन नहीं किया जा सकता  |  जैसे ही  सांप की आकृति बनी थाली को नगाडे की तरह बजाना शुरू किया गया  |  वैसे ही जिन लोगों को कभी भी सांप ने काटा था वह झूमने लगे और उनके शरीर में नाग का प्रवेश हो गया  | ये झूमते लोगों के मुँह से सांप बताता है की उसने इन्हें क्यों काटा  | आस्था और अंधविश्वास के इस मामले के दृश्य चौंकाने वाले हैं  |  यहाँ के लोगों की मान्यता है कि यहाँ आने से  बाबा मंगलदास की कृपा से  सापों के काटे का जहर उतर जाता है  |    इन लोगों का मानना है कि   यदि किसी को साप काट ले तो उसे उपचार के लिए यहां लाया जाता है और उसके गले मे बेल बांधी जाती है  |  ऐसे सभी लोंग साल भर में एक दिन  ग्राम लसूडिया परिहार आते है जहा हनुमान जी के मंदिर में नाग देवता स्वयं मानव शरीर में आकर हर मानव को क्यों काटा बताते है |  यह सुनने में भले ही विचित्र लगे किन्तु सत्य है |    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 November 2019

 ACCIDENT

वैन में हुए धमाके से मची भगदड़   सीहोर के जावर  में उस समय अफरा तफरी मच गई जब  एक मारुति वैन में अचानक आग लग गई  |  आग लगते ही लोग वैन के पास पहुंचे लेकिन उसमे हुए धमाकों से भगदड़ के हालात बन गए  | यह घटना जावर थाने के पास की ही है  |  बाद में दमकल ने आकर इस आग को बुझाया   |  जावर पुलिस स्टेशन के पास  एक घर के बाहर कड़ी वैन में अचानक आग लग गई  | देखते ही आग की बड़ी लपटे निकलने लगी और कार से दो बार धमाके की आवाज भी आई   | सूचना के बाद मौके पर दमकल की गाड़ी पहुचीं और कड़ी मशक्कत के बाद काबू पाया गया | बताया गया है कि यह वैन घरेलू गैस से चलाइ जा रही थी  |  इस कारण इस में अचानक आग लगी और   आग ने तत्काल ही विकराल रूप धारण कर लिया  | देखते ही देखते आस-पास भारी संख्या में लोग जुटने लगे   |  सामने घरो में रहे लोगो को दरवाजे बंद कर पीछे के रास्ते बहार निकाला गया  |  तभी एक तेज धमाके के साथ विस्फोट हुआ और सारे इलाके में दहशत का  वतावरण बन गया  |  इस घटना में वैन पूरी तरह जलकर ख़ाक हो गई   |  पुलिस ने इस मामले में कोई रिपोर्ट दर्ज नहीं की है  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 September 2019

 ACCIDENT

एक कि मौत  दो को बचाया गया   मध्य प्रदेश  के कई जिलों में अभी भी जारी अतिवृष्टि से गंभीर हादसे हो  रहे हैं.  |  ऐसे ही  सीप नदी के रपटे पर एक हादसा हुआ है |  इस रपटे को बाइक  से पार कर रहे 3 ग्रामीण एकाएक तेज बहाव में फंस गए | इनमें से दो तो बाहर आ गए लेकिन  तीसरा  बाइक सवार गहरे पानी में डूब गया | नसरुल्लागंज स्थित रफीकगंज गांव के मुहाने पर बहने वाली सीप नदी इन दिनों उफान पर है  |  इस नदी पर बने रपटे पर पानी का तेज बहाव है. |ऐसे में नसरुल्लागंज के रहने वाले 3 ग्रामीण अपनी बाइक पर सवार होकर इसे पार करने का प्रयास कर रहे थे....तभी इन ग्रामीणों की बाइक तेज बहाव में फंस कर बहने लगी  |  अचानक हुए इस हादसे में तीनों बाइक सवारों की जान सांसत में पड़ गई |  गनीमत ये रही कि इनमे से एक  बाइक सवार जैसे तैसे तैर कर किनारे पर आ गया  | जबकि दूसरे ने  निर्माणाधीन पुल के पिलर को पकड़ के अपनी जान बचाई  | जबकि तीसरा  युवक  लापता हो गया   | ग्रामीणों द्वारा काफी तलाश के बाद  कुछ दूरी पर जाकर तीसरे युवक का शव बरामद हुआ  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 September 2019

 SADHVI PRAGYA

पत्रकारों ने जताई नाराजगी प्रशासन को सौंपा ज्ञापन   प्रधान मंत्री की नाराजगी और बीजेपी की नसिहातों का भोपाल की  सांसद प्रज्ञा ठाकुर पर कोई असर नहीं हैं  |  वे हर बार कोई न कोई विवादित बयान देकर सुर्ख़ियों में बानी रहती हैं   | इस बार तो साध्वी प्रज्ञा ने मिडिया के माइक पर ही  मिडिया को  बेईमान कह दिया   | जिससे पत्रकारों में नाराजगी हैं और सभी पत्रकारों ने मिलकर प्रशासन को ज्ञापन सौपा हैं  |  भोपाल की सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर का विवादित बयानों से गहरा नाता रहा है |  चुनाव के दौरान और चुनाव के बाद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर अपने विवादित बयानों को लेकर चर्चा में बनी रहती है |  प्रधनमंत्री नरेंद मोदी के जन्मदिवस के अवसर पर सीहोर आई साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने एक बार फिर विवादित बयान दिया   | इस बार साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने हमला लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ पर किया और मिडिया को बाईट देते हुए कहा की  | हम तुम्हारी तारीफ कर रहे हैं  |  सुनो सीहोर के मिडिया वाले बेईमान हैं |  मिडिया को बेईमान कहने वाले बयान के बाद |  मीडिया के लोगो ने गहरी आपत्ति जताई हैं  | सीहोर की मिडिया के सभी पत्रकार संसद प्रज्ञा के  विरोध में तहसीलदार और कोतवाली टी आई मनोज मिश्रा को ज्ञापन सौपा और नारे लगाए   |   साथ ही मांग की  | की प्रज्ञा ठाकुर जो कि संवैधनिक पद पर है बिना किसी सबूत के पत्रकारो को बेईमान कहा रही है  |  साध्वी पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जाय |  दरअसल साध्वी प्रज्ञा ठाकुर अपनी खुन्नस सीहोर के पत्रकारों पर निकला रही थी |  कुछ महीने पहले अपने शौचालय वाले बयान को लेकर साध्वी पर जिस तरह भजपा ने शिकंजा कसा और भाजपा के वरिष्ठ नेताओं के साथ साथ खुद प्रधानमंत्री मोदी  ने साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को डांट लगाई |  वह बयान वाला वीडियो सीहोर के पत्रकारों ने ही वायरल किया था |                       

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 September 2019

 NAVRATRI MELA

कमिश्नर आई जी ने ली व्यवस्थाओं की  बैठक    प्राचीन  माँ विजयासन देवी मंदिर में नवरात्री पर लाखों की संख्या में श्रद्धालु दर्शन के लिए आते हैं |  मंदिर में मेला लगता हैं  |  नवरात्री में लगने वाले मेले में किसी प्रकार की कोई अप्रिय घटना ना हो किसी श्रद्धालुओं को असुविधा ना हो | इसके लिए कमिश्नर व् आई जी ने बैठक ली  |  नवरात्री मेले में माँ विजयासन धाम पर लाखों की संख्या में भक्तो का ताँता लगता हैं   | दूरदराज से लोग मंदिर में आते हैं  | कई भक्त नौ दिनों तक वंही डेरा दाल कर रहते हैं   | अक्सर भीड़ में कई हादसे हो जाते हैं  | इसको देखते हुए सभागयुक्त कमिश्नर कल्पना श्रीवास्तव एबं आई जी योगेश देशमुख ने मीटिंग ली साथ  जिला कलेक्टर  ,एस पी ओर सभी विभाग के अधिकारी  मौजूद रहे  | मीटिंग में विशेष तौर पर कहा गया की नौ दिनों तक मेला सुचारु रूप से चले  | किसी भक्त को कोई समस्या ना आये कोई अप्रिय घटना ना हो  |  सुरक्षा व्यवस्था चाक - चौबंद हो  | मेडिकल सुविधा का इंतजाम भी किया जाए   मंदिर जाने के रास्ते सीढ़ी  मार्ग ,सड़क मार्ग पर लाइट की व्यबस्था ,मेला ग्राउंड में टेंट सभी पद यात्रीओ के रास्ते मे लाइट ,पानी ,शोचालय और साथी ही | भूतड़ी अमावस्या पर नर्मदा आवली घाट  पर नहाने की सारी व्यवस्था की जाये इसी घाट पर भूतो का मेला भी लगता है |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  19 September 2019

 SADHVI PRAGYA

प्रज्ञा ने निकाली मीडिया पर भड़ास हमेश उटपटांग बोलती हैं प्रज्ञा सिंह   अक्सर अपने बेतुके बयानों से चर्चा में रहने वाली भोपाल  की सांसद साध्वी प्रज्ञा ने एक बार फिर विवादित बयान दिया है  | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के  जन्मदिन के अवसर स्थानीय कार्यक्रम में भाग  लेने सीहोर  पहुँची  सध्वी प्रज्ञा ने  कहा की   |  सीहोर मीडिया बेईमान है  |  ऐसा लगता है बीजेपी नेताओं की तमाम नसीहतों को सांसद साध्वी प्रज्ञा ने कचरे के ढेर पर डाल दिया है  | हमेशा विवादित बोलने वाली प्रज्ञा सिंह को अब मीडिया के लोग बेईमान लगने लगे हैं | प्रधनमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिवस के अवसर पर स्थानीय कार्यक्रमो में भाग लेने आई   साध्वी प्रज्ञा ठाकुर   से जब मीडिया ने सवाल पूछने की कोशिश की तो  साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने अपने मन की भड़ास निकाली और   | सीहोर की मीडिया को बेईमान  कहा  |  दरअसल इसके पीछे की कहानी यह है कि   | जब साध्वी प्रज्ञा ठाकुर पिछले महीने सीहोर कार्यकर्ता मिलन में भाग लेने पहुची थी  | तब  कार्यकर्ता ने शिकायत कर कहा था कि आप का तो पता ही नही चल रहा  चुनाव जीतने के बाद   | आप लापता हो गई है   | जिसके बाद  साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने बातों ही बातों में कार्यकर्ताओं  से कहा कि वे छोटे कामो के लिए सांसद नही बनी है  | उनके  इस बयान को मीडिया ने प्रमुखता से दिखया था  | और इसके बाद साध्वी प्रज्ञा को बीजेपी नेताओं की झाड़ का सामना करना पड़ा था  | प्रज्ञा के विवादित बयान पर प्रधानमंत्री मोदी तक नाराजगी जाता चुके हैं  | इसके बाद भी प्रज्ञा किसी की भी मैंने को तैयार नहीं हैं | ने भी साध्वी प्रज्ञा को डांट लगाई थी  |     

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 September 2019

 WEATHER

रस्सी के सहारे कब्रिस्तान पहुचा जनाजा   सीहोर में लगातार हो रही बारिश अब मुसीबत का सबब बन गई है |    खोकरी गांव में शव को दफनाने के लिए कब्रिस्तान तक जाने के लिए लोगो को घुटनो तक भरे पानी से गुजरना पड रहा है | अंतिम यात्रा में कोई अनहोनी न हो जाये इसलिए बारिश में उफनते नाले पर एक रस्सा बांधा गया है जिसे पकड़कर पानी के बीच से कब्रिस्तान तक बमुश्किल पहुंचा जाता है  |  प्रशासन की अनदेखी के चलते लोगों की परेशानियां कैसे बढ़ जाती हैं वह  आप इन तस्वीरों को देखकर आसानी से समझ सकते हैं |  दरअसल मामला सीहोर जिले के ग्राम खोकरी का है.|  जंहा मुस्लिम समुदाय के फैज बक्श मौलाना का  इंतकाल हो गया |   बारिश के चलते नदी नाले उफान पर है |  काफी इंतजार करने के बाद भी पानी नाले में से कम नही हुआ तो जनाजे को नाले के पार ले जाने का फैसला किया गया  | बरसात की वजह से नाले में भरपूर पानी चल रहा था  | ऐसे में नाले के दोनों और एक रस्सा बाँधा गया और फिर मजबूरन जनाजे को क़ब्रिस्तान तक ले जाने के लिए नाले में से होकर सब को गुजरना पड़ा |  इस गांव में कब्रिस्तान जाने के लिए कोई दूसरा रास्ता नहीं है और सालों से की जा रही मांग के बाद भी इस नाले पर पुल बनाया नहीं गया  |  पुल नही होने है  चलते बरसात के दिनों में अगर किसी का निधन हो जाए तो लोगों को बड़ी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है और ऐसे हालात बन जाते हैं|     

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 September 2019

shivraj singh

गरीब -किसानों की सरकार को चिंता नहीं पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने बुधनी के रेहटी में जन पंचायत को सम्बोधित किया और प्रदेश की कांग्रेस सरकार को कटघरे में खड़ा किया  |  उन्होंने कहा की कमलनाथ सरकार को गरीब और किसानों की कोई चिंता नहीं है  | पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रेहटी के सेमरी  बांया और बोरधी में  जन पंचायत  को संबोधित किया और कमलनाथ सरकार को जम कर घेरा  | शिवराज ने कहा कांग्रेस में सब एक दूसरे पर आरोप लगा रहे हैं | शिवराज ने सरकार की नाकामियां गिनाई और कहा कि मेरे शासन की  शिक्षा, स्वास्थ्य और  गरीबो की योजनाओं को इस सरकार ने बंद कर दिया  | किसानों के प्रति जो यह सरकार लापरवाही कर रही है | किसान को न तो फसल की कीमत दे रही हैं ओर ना ही 2 लाख कर्ज माफी  हुई  है  | इसके  लिये हम संघर्ष करंगे ओर  प्रदेश व्यापी आंदोलन करेंगे  | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 September 2019

 PRATAP CHANDRA SARANGI

सारंगी आर्थिक  मंदी ज्यादा समय नहीं रहेगी   केंद्रीय मंत्री प्रताप चंद्र सारंगी का बड़ा बयान सामने आया है उन्होंने कहा की जीएसटी और नोटबंदी की वजह से  आर्थिक मंदी दिख रही है लेकिन यह आर्थिक मंदी ज्यादा समय तक रहने वाली नहीं हैं  |  केंद्रीय मंत्री प्रतापचंद सारंगी ने माना कि देश मे मंदी का दौर चल रहा है  |  Gst ओर नोटबन्दी आर्थिक मंदी के लिए दोषी है  | मंत्री सारंगी ने उम्मीद जताई कि इन सबके बावजूद अन्धकार के बाद सूरज निकलेगा | मंत्री सारंगी सीहोर स्थित खादी ग्राम उद्योग के उपक्रम पुनी संयंत्र के निरीक्षण के लिए आये थे |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  8 September 2019

 SONU SHIVHARE

कांग्रेस मंडल अध्यक्ष का छोटा भाई है आरोपी   पुलिस ने छापेमारी कर कांग्रेस मंडल अध्यक्ष के छोटे भाई की कार से 65 हजार की अवैध शराब जप्त की | पुलिस को सूचना मिली थी कि कांग्रेस नेता का भाई शराब की तस्करी कर रहा है   | पुलिस ने शाहगंज इलाके में उसकी गाडी को चेक कर शराब पकड़ी  |  शाहगंज के कांग्रेस मंडलम अध्यक्ष रामकृष्ण शिवहरे के छोटे भाई सोनू शिवहरे को पुलिस ने अवैध शराब के मामले में गिरफ्तार किया  | शाहगंज भोपाल रोड पर पुलिस ने मुखबिर सूचना पर भोपाल की तरफ से आ रही लाल रंग की  पोलो कार को रोककर चेक  किया   तो कार की डिग्गी में रखी सात पेटी एवं ड्रायवर सीट के पीछे वाली सीट पर रखी तीन पेटी  अवैध शराब जप्त  की  | जप्त शराब की कीमत 65 हजार रूपये हैं |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 September 2019

 NEVAJ NADI

स्थानीय युवक ने कूदकर बचाई दोनों की जान    उफनती नदी की  पुलिया को पार कर रहे पिता पुत्र पानी का तेज बहाव होने से बह गए   | जिसके बाद स्थानीय लोगों ने नदी में छलांग लगा कर  कड़ी मशक्कत के बाद  दोनों की जान बचाई  |  लोग ज़रा सी जल्दबाजी में अपनी जान जोखिम में डाल देते हैं  |  कई बार जल्दबाजी जान की कीमत समझा देती है  |  ऐसा ही हुआ एक पिता पुत्र के साथ  |  इन दोनों ने उफनती नदी का पानी से भरा पुल पार करने की कोशिश की और पानी में बह गए  | मामला सीहोर में  जावर के नेवज नदी का है   |  लोगों ने इन लोगों को अकेले नदी पार न करने की स्लाह दी थी लेकिन ये लोग नहीं माने   और पानी के बहाव में आ गए   | बालक और उसके पिता को बहता देख स्थानीय लोगो ने पानी मे छलांग लगा दी  |  और कड़ी  मशक्कत के बाद दोनों को बचा लिया  | बताया गया है कि शहीद शाह अपने बच्चे का आधार कार्ड बनवाने के लिए नदी से इस पार से उस पार जा रहे थे  |  तभी पुलिया पर भीड़ बढ़ने के कारण  पांव फिसल गया   | और नदी में गिर कर  बहने लगे   |  इस दौरान वहीं मौजूद लाखा नाम के व्यक्ति ने नदी में छलांग लगादी   | अपनी जान पर खेलकर  शाहिद शाह के बच्चे दस साल के उमर शाह  को नदी में से निकाल कर जान बचाई  | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  27 August 2019

SHAMSHAN GHAT

शमशान घाट को लेकर लापरवाह प्रशासन   सरकार विकास के लाख दावे करे लेकिन हकीकत कुछ और ही है  | हालत यह है कि कई गॉंवों में अब तक शमशान घाट तक नहीं है  और किसी की मृत्यु हो जाए तो ग्रमीणों को मज़बूरी में खेतों में अंतिम संस्कार करना पड़ता है   | वहीं बरसात में खेतों में फसल की बुवाई होने से  समस्या और भी बढ़ जाती है  | ऐसे में अंतिम संस्कात के लिए लोगों को आसपास के कस्बों और शहरों का रुख करना पड़ता है  |  सीहोर जिले की आष्टा तहसील के ग्राम पंचायत जताखेड़ा अंतर्गत आने वाले बाउपुरा गांव के निवासी श्मशान घाट नहीं होने के कारण बहुत परेशान हैं  |शमशान  घाट नहीं होने के कारण गांव में किसी की मृत्यु होने पर खेतों में अंतिम संस्कार करना पड़ता है | वही बारिश में मृत्यु होने पर ग्रामीणों को गांव से 5 किलोमीटर दूर आष्टा शहर के मुक्तिधाम में अंतिम संस्कार करना पड़ता है |  ग्रामीणवासी पार्वती बाई कुशवाहा का दाह संस्कार करने गांव से बाहर दूर शहर के मुक्तिधाम में आये थे   | मुक्तिधाम में  ग्रामीणों ने बताया कि गांव में  कोई  शमशान नही है  | और गांव के पास खेत पर दाह संस्कार करते है | लेकिन बारिश में खेतों में फसल बोयी जाती है | वहां  तार बाँध दिए गए हैं | ऐसे में शव को आष्टा लाना पड़ा  | गांव में श्मशान की सही जगह कौनसी है किसी को पता नहीं  | नेताओं और अधिकारीयों  से कई बार ग्रामीण अपनी शिकायत कर चुके हैं लेकिन अब तक इसका कोई नतीजा नहीं निकला   | पहले लोग जहाँ अंतिम संस्कार करते थे अब वहां तक जाने का रास्ता ही नहीं बचा है     ऐसे में बारिश में अंतिम संस्कार गांव से दूर शहर के मुक्तिधाम में  किये जा रहे हैं | ग्रामीणों  का कहना है कि हम अपने पूर्वजों के समय से यहाँ दाह संस्कार करते आये है | लेकिन अब कुछ बीते वर्षो से यह दाह संस्कार करने में परेशानी हो रही |  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 August 2019

 ARIF AKIL

शिवराज ने क्षेत्र का विकास नहीं किया    बुधनी के रेहटी में प्रभारी मंत्री आरिफ अकील के निशाने पर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान रहे |  अकील ने कहा हमें तो लगा था कि यहाँ बहुत विकास हुआ होगा  | लेकिन शिवराज सिंह ने तो अपनेइलाके का ही विकास नहीं किया  |  सरकार के अभियान आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम में प्रभारी मंत्री आरिग अकील रेहटी पहुंचे  |  यहाँ उन्होंने जान समस्याएं सुनीं और ततकाल उनके निराकरण के निर्देश दिए  | अकील के इस कार्यक्रम में जिले के सभी आला अधिकारी मौजूद थे  | अकील ने लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा कि   मध्यप्रदेश में कमलनाथ की सरकार है जो सब के काम कर रही है  | ये इलाका पांव पांव वाले भैया का है   | जो मुंगेरी लाला के सपने देखते रहते हैं |  उन्होंने अपने ही क्षेत्र का कोई विकास नहीं किया |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 August 2019

 Pragya Singh Thakur

हम नाली साफ़ करवाने के लिए सांसद नहीं    नई  नई सांसद बनीं प्रज्ञा ठाकुर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के  स्वच्छता अभियान को पलीता लगाती नजर आ रही हैं   मोदी पूरी ताकत से स्वच्छता अभियान चलाए हुए हैं  वहीँ साध्वी  प्रज्ञा सिंह का साफ़ कहना है  हम नाली और शौचालय साफ करवाने के लिए सांसद नहीं बने  प्रज्ञा सिंह की बातों से लगता है कि वो प्रधानमंत्री मोदी की बातों को या तो भाव  नहीं देतीं या फिर उन्हें जानबूझकर मोदी की बातों को नजर अंदाज कर देती हैं    अब ये साफ़ हो गया गए कि नाथूराम गोड़से वाले बायान और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सार्वजानिक नाराजगी के बाद भोपाली की सांसद प्रज्ञा सिंह खुद को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बेहतर मानती हैं   मोदी ने देश को साफ़ सुथरा रखने के लिए तमाम यत्न किए और योजनाएं भी लाए   लेकिन  भोपाल में भारतीय जनता पार्टी की सांसद प्रज्ञा ठाकुर ने कहा कि 'हम नाली साफ करवाने के लिए नहीं बने हैं हम आपका शौचालय साफ करने के लिए बिल्कुल नहीं बनाए गए हैं  हम जिस काम के लिए बनाए गए हैं, वो काम हम इमानदारी से कर रहे हैं  पहले सुनें  प्रज्ञा सिंह को  प्रज्ञा ठाकुर का बयान ऐसे समय में आया है जब प्रधानमंत्री मोदी स्वच्छता को लेकर जागरूकता फैला रहे हैं अभी कुछ दिन पहले बीजेपी सांसद अनुराग ठाकुर और हेमा मालिनी ने संसद परिसर में झाड़ू लगाकर सफाई की थी प्रज्ञा सिंह ठाकुर अपने बड़बोले पन से पहले भी बीजेपी की जमकर फजीहत करवा चुकी हैं लोकसभा चुनाव से पहले प्रज्ञा ठाकुर ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को 'देशभक्त' करार देकर बीजेपी की किरकिरी करवाई थी  प्रज्ञा सिंह ठाकुर के इस नए बयान पर विवाद बढ़ता देख बीजेपी ने फिर अपने हाथ पीछे खींच लिए हैं  बीजेपी नेताओं ने ही इस मसले पर सांसद प्रज्ञा का वायरल हो रहा वीडिओ प्रधानमंत्री मोदी और  पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष को भेज दिया है   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 July 2019

govind singh

तहसीलदारों ने मंत्री के खिलाफ मोर्चा खोला  राजस्व मंत्री  गोविंद सिंह राजपूत ने सीहोर तहसील का अचानक  निरीक्षण किया यहाँ राजस्व मंत्री न केवल राजस्व न्यायालय की गरिमा के विरूद्ध तहसीलदार की डायस पर बैठे, बल्कि यहीं से लापरवाही के आरोप लगाते हुए तहसीलदार सुधीर कुशवाह को सस्पेंड किया राजस्व मंत्री गोविंद सिंह राजपूत और उनके ओएसडी कमल नागर के इस रवैए को लेकर मध्यप्रदेश राजस्व अधिकारी संघ काफी नाराज है | अब संघ के लोग अलग अलग जगह मंत्री गोविन्द सिंह के बर्ताव की शिकायत कर रहे हैं | राजस्व अधिकारी संघ का आरोप है कि राजस्व मंत्री गोविंद सिंह राजपूत सत्ता के नशे में मंगलवार को सीहोर में राजस्व न्यायालय की गरिमा भूल गए इसमें सबसे खास बात यह रही कि उनके ओएसडी कमल नागर ने भी न्यायालय के सम्मान को बचाने का प्रयास नहीं किया, जबकि नागर राज्य प्रशासनिक सेवा के अफसर हैं |अब इस मामले में राजस्व अधिकारी संघ ने राजस्व मंत्री राजपूत के साथ उनके ओएसडी कमल नागर को भी घेरना शुरू कर दिया है  | बुधवार को प्रभारी मंत्री आरिफ अकील को भोपाल में इस सिलसिले में ज्ञापन दिया गया | राजस्व अधिकारी संघ ने बताया कि 25 जून को राजस्व मंत्री द्वारा अपने सहयोगियों के साथ तहसील सीहोर में तहसीलदार न्यायालय का औचक निरक्षण किया | निरीक्षण के दौरान न्यायालय की गरिमा के विपरीत तहसीलदार न्यायालय के डायस पर स्वत: बैठ गए एवं अन्य अनाधिकृत, गैर न्यायायिक अधिकारी एवं अन्य व्यक्ति भी न्यायालय के डायस पर बैठकर राजस्व न्यायालय की गरिमा को आहत किया है | सार्वजनिक तौर पर राजस्व मंत्री ने तहसीलदार पद को भ्रष्ट कहा  यह तहसीलदार संस्था के सम्मान, स्वाभिमान और गरिमा पर गंभीर आघात है | विधि द्वारा सु-स्थापित न्यायालय के डेकोरम को भंग करने की सम्पूर्ण गतिविधि सार्वजनिक हो चुकी है  जिससे स्पष्ट है कि न्यायालय का अस्तित्व विभाग के मंत्री द्वारा ही समाप्त किया जा रहा है  इधर राजस्व मंत्री गोविन्द सिंह खुद की कार्यवाही को ठीक बता रहे हैं इस बीच सीहोर कलेक्टर अजय गुप्ता ने प्रदेश के राजस्व मंत्री गोविन्द राजपूत के इस आदेश को मानने से साफ इंकार कर दिया है कि सीहोर के तहसीलदार सुधीर कुशवाह भ्रष्ट हैं, इसलिए उन्हें निलंबित करने का प्रस्ताव भेजा जाए | कलेक्टर का कहना है कि तहसीलदार को निलंबित करने का अधिकार राज्य शासन को है | मंत्री जी चाहें तो इस संबंध में प्रमुख सचिव राजस्व को कार्यवाही के लिए लिख सकते हैं | राजस्व अधिकारी संघ ने तहसीलदार के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई होते ही अनिश्चित कालीन हड़ताल पर जाने की घोषणा की है |  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 June 2019

shivraj singh

मुख्यमंत्री ने सीहोर जिले को दी 342 करोड़ के विकास कार्यों की सौगात एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सीहोर जिले के ग्राम नांदनेर में विशाल जनसभा में बताया कि राज्य सरकार ने बिजली बिल माफी योजना के अंतर्गत प्रदेश में गरीबों और अन्य जरूरतमंदों के 5 हजार 200 करोड़ रुपये के बकाया बिजली बिल माफ कर दिये हैं। इसके साथ ही इन सबको प्रति माह अधिकतम 200 रुपये के बिल पर बिजली उपलब्ध करवाई जा रही है। श्री चौहान ने ग्राम नांदनेर में 342 करोड़ रुपये से अधिक के विकास कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण किया। श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश को बीमारू राज्य की श्रेणी से निकालकर विकसित राज्य की श्रेणी में स्थापित करने में राज्य सरकार सफल रही है। अब प्रदेश को समृद्ध राज्य का दर्जा दिलाने के लिये सभी संभव प्रयास शुरू किये गये हैं। विभिन्न योजनाओं की जानकारी देते हुए उन्होंने लोगों का आव्हान किया कि अधिकारपूर्वक योजनाओं का लाभ प्राप्त करें। श्री चौहान ने बताया कि ग्राम नांदनेर तथा इसके आसपास के गाँवों में किसानों को लिफ्ट इरीगेशन के माध्यम से सिंचाई सुविधा उपलब्ध करवाई जायेगी। इस मौके पर जिले के प्रभारी, लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती उर्मिला मरेठा, अन्य जन-प्रतिनिधि और बड़ी संख्या में ग्रामीण और किसान मौजूद थे। दिवंगत हेड कांस्टेबल को दी श्रृद्धांजलि मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आज बुधनी-शाहगंज मार्ग पर पुलिस विभाग की बस के दुर्घटनाग्रस्त होने पर दु:ख व्यक्त किया। श्री चौहान ने बस में ड्यूटी पर आ रहे हेड कांस्टेबल श्री अशोक सिंह की मृत्यु हो जाने पर शोक-संवेदना व्यक्त करते हुए दिवंगत आत्मा को श्रृद्धांजलि अर्पित की। मुख्यमंत्री ने कहा कि दु:ख की इस घड़ी में दिवंगत हेड कांस्टेबल श्री अशोक सिंह के परिवार के साथ राज्य सरकार खड़ी है। परिवार को सभी संभव सहायता उपलब्ध करवाई जायेगी।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 October 2018

मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान

  एमपी के मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि हम जनता की जिंदगी बदलने के संकल्प के साथ कार्य कर रहे हैं। प्रदेश को बदलने, बच्चों का भविष्य निखारने, किसानों को पसीने की कीमत दिलाने, गरीब की जिंदगी को बेहतर बनाने और सबको न्याय दिलवाने के लिये दुनिया में जो कहीं नहीं हुआ, वह प्रदेश में करने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि पिछले एक वर्ष में शासकीय अनुदान और सहायता की विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत 33 हजार करोड़ रूपये किसानों के बैंक खातों में जमा करवाये गये हैं। श्री चौहान आज मुख्यमंत्री निवास में शिव आभार साइकिल यात्रा समापन समारोह को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गरीबों की जिंदगी का अंधेरा दूर करने के लिये संबल योजना संचालित की गई है। उन्होंने कहा कि सरकार का बजट पहले भी होता था, किन्तु कभी भी किसानों को सरकार से इतनी मदद नहीं मिली। श्री चौहान ने कहा कि कुनबी पटेल समाज आभार के लिये आया है, यह अत्यंत हर्ष का विषय है। उन्होंने कहा कि कुनबी पटेल समाज का स्नेह अनमोल है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा संचालित योजनाओं का लाभ अधिक से अधिक लोगों को प्राप्त कराने के लिये समाज प्रयास करे। उल्लेखनीय है कि शिव आभार यात्रा 29 जुलाई को खंडवा से प्रारंभ हुई थी। यह 6 दिवसीय यात्रा खंडवा से गांव-गांव होते हुए आज भोपाल पहुँची। खंडवा से भोपाल की 600 किमी की साइकिल यात्रा में बड़ी संख्या में युवाओं ने भाग लिया। समाज में सकारात्मकता का प्रसार किया।    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 August 2018

shivraj singh

एमपी के मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने सीहोर जिले की महत्वाकांक्षी नर्मदा-पार्वती लिंक परियोजना का शिलान्यास किया। परियोजना के पहले और दूसरे चरण में इंदिरा सागर जलाशय से लगभग 295 मीटर ऊँचाई तक पानी लिफ्ट कर किसानों के खेतों तक पाइप लाइन से पहुँचाया जायेगा। इसके लिए पहला पंपिंग स्टेशन कन्नौद तहसील के धरमपुरी में बनाया जाएगा। दूसरे पंपिंग स्टेशन से आष्टा तहसील के सिंगारचोली गाँव के पास निर्मित जंक्शन स्ट्रक्चर में डालकर खेतों तक पहुँचाने की व्यवस्था होगी। योजना से सीहोर जिले की आष्टा, जावर तथा इछावर तहसील के 187 गाँव का लगभग ढाई लाख एकड़ रकबा सिंचित होगा। आष्टा में आज संपन्न शिलान्यास समारोह में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि परियोजना के पूरा होने पर सीहोर जिले के किसानों की तकदीर और क्षेत्र की तस्वीर बदलेगी। परियोजना से किसानों को ढाई हेक्टेयर तक के चक में पाइप लाइन से सिंचाई के लिए पानी उपलब्ध होगा। योजना से सीहोर जिले के उन किसानों को सिंचाई का लाभ मिलने लगेगा, जो भौगोलिक रूप से नर्मदा नदी से ऊँचाई पर बसे हैं। किसानों को सिंचाई के लिए पानी जल्दी मिल सके, इसके लिए नहरों के स्थान पर पाइप लाइन से सिंचाई की व्यवस्था की जा रही है। नर्मदा-क्षिप्रा-कालीसिंध-पार्वती को जोड़ने पर एक लाख 30 हजार करोड़ खर्च होंगे मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि नर्मदा-क्षिप्रा-कालीसिंध-पार्वती नदियों को जोड़ा जा रहा है। इस पर करीब एक लाख 30 हजार करोड़ की लागत आएगी और साढ़े सात लाख हेक्टेयर ऐसे क्षेत्र में सिंचाई हो सकेगी, जहाँ किसान केवल अच्छी वर्षा होने पर ही फसल ले पाते थे। उन्होंने कहा कि इस परियोजना के पूरा होने पर क्षेत्र में पीने के पानी की समस्या से भी निजात मिलेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सरकार हर हाल में किसानों की आर्थिक स्थिति सुधारने और खेती को लाभ का व्यवसाय बनाने के लिए प्रतिबद्ध है। आज ही सीहोर जिले के एक लाख इक्यावन हजार से अधिक किसानों के खातों में फसल बीमा योजना की 482 करोड़ से अधिक राशि जमा करवाई गई है। पिछले साल बेचे गए गेहूँ पर 200 रुपये प्रति क्विंटल के मान से बोनस दिया गया। श्री चौहान ने विभिन्न फसलों का समर्थन मूल्य बढ़ाए जाने पर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी को धन्यवाद देते हुए कहा कि इसका लाभ भी प्रदेश के किसानों को मिलेगा। उन्होंने बताया कि प्रदेश की सोयाबीन को चीन निर्यात करने के प्रयास भी किए जा रहे हैं, इससे भी प्रदेश के किसानों को फायदा होगा। मध्यप्रदेश के असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के लिए शुरू की गई संबल योजना की जानकारी देते हुए मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि यह योजना देश भर में अनूठी है। अभी तक प्रदेश में करीब दो करोड़ असंगठित श्रमिकों ने योजना में अपना पंजीयन करवाया है। गरीब परिवारों के बच्चों को नि:शुल्क शिक्षा, चिकित्सा देने की व्यवस्था संबल योजना में की गई है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अब बिजली के भारी-भरकम बिल गरीबों को परेशान नहीं करेंगे। प्रदेश के सभी जिलों में शिविर लगाकर गरीबों के बिजली के बिल माफ किए जा रहे हैं। इसके बाद उन्हें हर माह 200 रुपये महीने के मान से बिजली बिल दिए जाएंगे। इसमें चार बल्ब, दो पंखे, एक कूलर और टी.वी. चलाया जा सकेगा। अंसगठित क्षेत्र के पंजीकृत श्रमिकों को रहने के लिए जमीन तथा मकान बनाकर दिए जाएंगे। श्री चौहान ने प्रदेश के विकास के लिए सभी के सहयोग की अपेक्षा की है। इसके पहले मुख्यमंत्री श्री चौहान ने 119 करोड़ 11 लाख रुपये की लागत से 22 कार्यों का भूमि-पूजन तथा 75 करोड़ 9 लाख लागत के 6 निर्माण कार्यों का लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने सभा-स्थल के समीप वृक्षारोपण कर नागरिकों से एक पौधा अवश्य लगाने की अपील की। कार्यक्रम में लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह, नर्मदा घाटी विकास राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री लालसिंह आर्य, सांसद श्री मनोहर ऊँटवाल, विधायक श्री रणजीत सिंह गुणवान, श्री सुदेश राय, श्री जसवंत सिंह हाड़ा, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती उर्मिला मरेठा और पाठ़य-पुस्तक निगम के अध्यक्ष श्री रायसिंह सैंधव उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 July 2018

महिला कृषक

महिला कृषकों के 1038 स्व-सहायता समूह गठित  मध्य प्रदेश में कृषि के क्षेत्र में महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने के लिये पिछले वर्ष महिला कृषकों के 1038 स्व-सहायता समूह गठित किये गये। इन समूहों में महिला कृषकों के 437 अंतर्जिला प्रशिक्षण भी आयोजित किये गये। इसके अलावा 1555 महिला कृषकों को कृषि की उन्नत तकनीक अपनाने के लिये प्रशिक्षण दिलवाया गया। इस योजना पर पिछले वर्ष 4.50 करोड़ की राशि व्यय की गयी। इस वित्तीय वर्ष में इस योजना के लिये 6 करोड़ रुपये की व्यवस्था सुनिश्चित की गयी है। मध्यप्रदेश में कृषि के क्षेत्र में महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने के मकसद से किसान कल्‍याण एवं कृषि विकास विभाग द्वारा योजना शुरू की गयी है। योजना का उद्देश्य प्रदेश में महिला कृषकों के जीवन-यापन स्तर में सुधार लाना है। महिला कृषकों को कृषि की कम लागत की तकनीक चुनने, उसे समझने और अपनाने के योग्य बनाना भी है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  8 July 2017

किसानों ने किया चक्काजाम

   इंदौर-भोपाल स्टेट हाईवे पर किसानों ने चक्काजाम कर दिया, जिससे दोनों ओर वाहनों की 5 किमी लंबी लाइन लग गई। जानकारी के मुताबिक आष्टा के पास पागरिया घाटी में चार दिन से प्याज की तुलाई न होने पर किसान उग्र हो गए। सुबह वे सड़क पर उतर आए और रास्ते से निकलने वाले वाहनों को रोक दिया। कुछ देर बाद पुलिस की समझाइश के बाद किसान हट गए और जाम खुला। इस दौरान सड़क के दोनों ओर वाहनों लंबी लाइन लग गई थी। चक्काजाम से यात्रियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। उग्र किसानों को समझाने के लिए कोई भी आगे नहीं आ रहा था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 June 2017

मुख्यमंत्री चौहान

  बकतरा में मुख्यमंत्री कन्या विवाह/निकाह संपन्न  मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान की उपस्थिति में सीहोर जिले की बुदनी तहसील के ग्राम बकतरा में आज को मुख्यमंत्री कन्या विवाह/निकाह तथा कृषि विज्ञान मेला 2017 हुआ। विवाह समारोह में 95 विवाह तथा दो निकाह हुए। मुख्यमंत्री सपत्नीक बारात में शामिल हुए। उन्होंने कार्यक्रम स्थल पर पुष्प वर्षा कर दुल्हों का स्वागत भी किया। मुख्यमंत्री ने नवयुगलों को आशीर्वाद देते हुए शासन की कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि किसानों के कल्याण का जितना कार्य प्रदेश सरकार ने किया है इतिहास मे कभी नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि प्याज आठ रुपये किलो की दर से खरीदा जा रहा है। दस जून से तुअर 5050, मूंग 5225 तथा उड़द 5000 रुपये क्विंटल की दर पर खरीदी जाएगी। इससे पहले मुख्यमंत्री ने 123 लाख रुपये की लागत से नवनिर्मित कन्या उच्चतर माध्यमिक शाला का लोकार्पण किया। उन्होंने अगले वर्ष से महाविद्यालय में विज्ञान संकाय शुरू करने की घोषणा की। कार्यक्रम मे प्रभारी मंत्री श्री रामपाल सिंह, मार्कफेड अध्यक्ष श्री रमाकांत भार्गव, वेयर हाउसिंग कार्पोरेशन के अध्यक्ष श्री राजेन्द्र सिंह राजपूत, वन विकास निगम अध्यक्ष श्री गुरु प्रसाद शर्मा, राज्य वनोपज संघ उपाध्यक्ष श्री रामनारायण साहू, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती उर्मिला मरेठा उपस्थित थीं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 June 2017

shivraj singh

सीहोर अहमदपुर में ग्रामोदय से भारत उदय अभियान के समापन पर सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रदेश में कोई भी भूखा नहीं रहेगा। सभी गरीबों को सब्सिडी से अनाज उपलब्ध कराया जाएगा। इसके साथ गरीबों को मकान बनाने के लिए पैसा दिया जाएगा, प्रदेश की धरती पर कोई बिना मकान के नहीं रहेगा। इसका पैसा सीधे खाते में डाला जाएगा। उन्होंने कहा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश तरक्की कर रहा है। सीएम ने कहा प्रदेश हर गरीब के लिए रोटी, कपड़ा और मकान देंगे। आज 1 रुपये किलो गेहूं, चावल और नमक 5.5 करोड़ लोगों को दिया जा रहा है। जो लोग सक्षम हैं वे मिल रही सब्सिडी को छोड़ने के लिए खुद आगे आए, जिससे गरीबों का भला हो सके। सीएम ने कहा कि खेती को फायदे का धंधा बनाना है, नदियों को जोड़कर खेती को लाभ का धंधा बनाएंगे। प्रदेश में लड़कियों के लिए कई स्कीम लागू की गई है। ग्राम पंचायतों को विकास के लिए करोड़ों की राशि दी जा रही है। अब गांवो में बैठकर ही ग्रामीणों की समस्या का निवारण किया जाएगा। हमने हर पंचायत में तय किया है कि एक तालाब तो होगा। आप गांव वाले विकास के जो काम तय कर देंगे, सरकार व ग्राम पंचायत वही काम करेंगे। सभी गांवों में सीसी रोड और पक्की नालियां बनाएंगे। प्रदेश में सात हजार पंचायतें और सहित 5 और जिले खुले में शौच से मुक्त हो चुके हैं। ग्राम पंचायतों को एक करोड़ रुपए से एक लाख रुपए तक की राशि मिल रही है। गरीबों और किसानों का कल्याण हमारा लक्ष्य है। सीएम ने कहा कोई भी गरीब बिना मकान के नहीं रहेगा, 2011 तक सभी आवासहीन को मकान बनाकर दिए जाएंगे। बिजली विभाग और वन विभाग को छोड़कर बाकी के सभी विभागों में 35 प्रतिशत नौकरी महिलाओं के देंगे। उन्होंने कहा 3 लाख बच्चों को रोजगार देंगे और 7 लाख बच्चों को कौशल विकास के अंतर्गत ट्रेंड करेंगे। 2 लाख की सम्मान निधि अच्छा काम करने वाले सरपंच को दी जाएगी इसी तरह 1 के लाख की 2 राशि दूसरे नंबर पर आने वाले 2 सरपंचों को दी जाएगी। सीएम ने कहा कि 91 हजार 300 किमी सड़क बनने का लक्ष्य था, 80 हजार किमी की सड़क बना चुके हैं, जो पूरे देश मे रिकार्ड है। फलदार पेड़ लगने पर सरकार 5 हजार की राशि देगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश के ग्रामो को नंबर 1 बना देंगे। 2 जुलाई को नर्मदा पर पेड़ लगना है ये काम मे अकेले नहीं कर सकता हूं, आप सभी का सहयोग चाहिए।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 May 2017

सीहोर जिले के आदिवासी ग्राम

मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने सीहोर जिले के प्रवास के दौरान दो लघु सिंचाई परियोजना को स्वीकृत किया। नसरूल्लागंज विकास खंड के ग्राम महादेव बेदरा में उन्नीस करोड़ तीस लाख रू. लागत की इस परीयोजना के पूरा होने पर 1200 एकड़ में सिचाई होगी। इसी प्रकार अमीरगंज तालाब से सिंचाई परियोजना को भी स्वीकृत कर तत्काल कार्य आंरभ करने के निर्देष सिंचाई विभाग के अधिकारियों को दिये। ग्यारह करोड़ पैंसठ लाख रू. लागत की इस सिंचाई परियोजना में करीब 750 एकड़ क्षेत्र में सिंचाई हो सकेगी। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि दोनों सिंचाई योजनाओं की मांग ग्रामीणों द्वारा काफी लम्बे समय से की जा रही थी। जनता से बातचीत करते हुए श्री चौहान ने कहा कि पलास पानी और पातल पर्ट तलाई योजनाओं का ससर्वे कराया जा रहा है। उन्होनें सिंचाई विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये स्वीकृत योजनाओं का निर्माण कार्य शीध्र शुरू हो ताकि किसान के खेत तक पानी जल्द पहुँचे। जो गॉव रह गये है, उनमें भी जल्द ही सिंचाई सुविधा पहॅुचाने का प्रयास किया जा रहा है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने ग्राम अमीरगंज भैसान में आयोजित किसान सम्मेलन में कहा कि आगामी 1 जून को भोपाल में ग्लोबल स्किल डवलापमेंट समिट आयोजित की जाएगी। जिसमें युवाओं को तकनीकी क्षेत्र में रोजगार देने वाली बडी बडी कम्पनीयों के प्रतिनिधि आकर प्रदेश के युवाओ को आत्म निर्भर बनाने हेतु रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने पर चर्चा करेंगें। तथा युवाओं का मार्गदर्शन देंगें। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि नर्मदा तट पर 2 जुलाई को करोड़ों पौधे रोपित किये जाएगें। उन्होने स्थानीय ग्रामीणो से अपील की कि वे भी वृक्षा रोपण महाअभियान में पौधरोपण कर अपनी भागीदारी दें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इस अवसर पर लोक स्वास्थ यांत्रिक विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि नसरूल्लागंज क्षेत्र के जिन गॉव मे पेय जल समस्या हो वहॉ पानी कि टंकी बनवाने कि व्यवस्था करें ताकी नर्मदा का जल गॉव गॉव मे पाईप लाईन के माध्यम से घर घर तक पहुँचाने की व्यवस्था की जा सके। उन्होने आमीर गंज में हायर सेंकडरी स्कूल, पशुचिकित्सलय, यात्री प्रतिक्षालय, व स्टीट लाईट स्वीकृत करने की घोषण भी कि। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इस अवसर पर कहा कि किसी को भी आवास हीन व भूमि हीन नही रहने दिया जायेगा। हर गरीब परीवार के लिये आवासीय भूमि और भवन कि व्यवस्था सरकार कर रही है उन्होन कहा कि खेती को लाभ का घंधा बनाने और अगले 5 बर्षो में किसानो की आय दुगनी करने के लिये सरकार प्रयास कर रही है। उन्होने कृषि विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों से कहा कि नसरूलागंज क्षेत्र के आदिवासी बहुल गॉवो मे कृषि उत्पादन व आय बढाने के लिये अलग से विशेष योजना तैयार करें। गत दिवस क्षेत्र के ग्राम मोगराखेडा में जिन 3 आदिवासी जयराम वारेला, कीर्तिसिंह बारेला, और भारत सिंह के घर जल गये थे उन्हे एक लाख चार हजार रू. राहत राषि के चेक प्रदान किये उन्होने बालिका कु. रिंकी व प्रतिभा के लाडली लक्ष्मी योजना के तहत प्रमाण पत्र प्रदान किये। कार्यक्रम में मार्कफेड अध्यक्ष श्री रमाकांत भार्गव, वन विकास निगम अध्यक्ष श्री गुरू प्रसाद शर्मार्, वेयर हाउसिंग कार्पोरेशन के अध्यक्ष श्री राजेन्द्र सिंह राजपूत, म.प्र. बाल आयोग सदस्य श्रीमती निर्मला, बारेला, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती उर्मिला मरेठा जन प्रतिनिधि एवं वरिष्ठ अधिकारियों सहित बडी संख्या में ग्रामीणजन उपस्थित थे। इसके पूर्व मुख्यमंत्री ग्राम आमाडोह मे आयोजित किसान सम्मेलन भी शामिल हुए।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 May 2017

कन्या विवाह-निकाह योजना

बांद्राभान में 200 से अधिक कन्याओं के विवाह समारोह में मुख्यमंत्री श्री चौहान मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि लाड़ली लक्ष्मी और मुख्यमंत्री कन्या विवाह-निकाह योजना के लिये ऐसी व्यवस्था की जायेगी कि यह दोनों योजनाएँ हमेशा संचालित हो। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कन्या विवाह-निकाह योजना में दाम्पत्य सूत्र में बँधने वाली नव-वधुओं को स्मार्ट फोन के लिये 3-3 हजार चेक पृथक से दिये जायेंगे। मुख्यमंत्री आज सीहोर जिले के बुधनी विकासखण्ड के बान्द्राभान में पतई वाले गुरूदेव की प्रेरणा से अक्षया तृतीया पर आयोजित मुख्यमंत्री कन्या विवाह-निकाह योजना के विवाह समारोह को संबोधित कर रहे थे। समारोह में 232 कन्याओं का विवाह और एक कन्या का निकाह हुआ। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नव-दम्पत्तियों को आशीर्वाद और समारोह में उपस्थित सभी लोगों को परशुराम जयंती की शुभकामनाएँ दी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने समारोह स्थल पर पहुँचने पर अपने स्वागत से इंकार किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि - 'बेटियों की शादी है, मैं तो घराती हूँ। बारातियों का स्वागत करूँगा।' उन्होंने दूल्हों से कहा कि 'मेरी भाँजियों का ध्यान रखना, नहीं तो मामा से लड़ाई हो जायेगी।' समारोह को जिला प्रभारी और प्रदेश के लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह एवं वेयर हाउसिंग कार्पोरेशन के अध्यक्ष श्री राजेन्द्र सिंह ने भी संबोधित किया। समारोह में राम जन्म भूमि न्याय के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष स्वामी आत्मानंद सरस्वती, मार्कफेड के अध्यक्ष श्री रमाकान्त भार्गव, विधायक श्री विजयपाल सिंह, सलकनपुर देवी धाम ट्रस्ट अध्यक्ष श्री महेश उपाध्याय सहित अन्य जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  30 April 2017

 साध्वी आस्था भारती

औबेदुल्लागंज में भागवत कथा में मुख्यमंत्री श्री चौहान   हमारे संतों ने मानव जीवन का एक मात्र लक्ष्य परमात्मा की प्राप्ति और लोक कल्याण बताया है। उन्होंने ईश्वर प्राप्ति के तीन मार्ग बताए हैं जिसमें एक ज्ञान मार्ग, दूसरा भक्ति मार्ग और तीसरा कर्म मार्ग है। मैं कर्म का मार्ग अपनाकर जीवनभर लोगों के समग्र विकास और कल्याण के लिए काम करता रहूँगा। यह बात मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने औबेदुल्लागंज में प्रसिद्ध साध्वी आस्था भारती की भागवत कथा के दौरान कही। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री होने के नाते मेरा कार्य केवल प्रदेश का विकास करना ही नहीं है बल्कि लोगों के सुख और कल्याण की चिंता करना भी है। लोगों की उन्नति और तरक्की के लिए मैं जीवनभर काम करता रहूँगा। श्री चौहान ने कहा कि कर्म मार्ग द्वारा ईश्वर प्राप्ति का आशय यह है कि डॉक्टर, इंजीनियर, शिक्षक, व्यापारी, राजनीतिज्ञ आदि सभी लोगों को, जो जिस पेशे में है वह अपना कार्य पूरी ईमानदारी और निष्ठा से लोक कल्याण के लिए करें। कर्म के इस मार्ग से भी ईश्वर को प्राप्त किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि हमें अपनी आने वाली पीढ़ी के स्वस्थ्य और सुखद भविष्य के लिए नदियों और पर्यावरण का संरक्षण करना होगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि नर्मदा सेवा अभियान एक बहु-उद्देश्यीय अभियान है, जिसे जनता की सक्रिय भागीदारी से सफल बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि नर्मदा के दोनों तटों पर एक-एक किलोमीटर की दूरी तक सघन वृक्षारोपण किया जायेगा। श्री चौहान ने बताया कि 2 जुलाई को लाखों लोग नर्मदा के तट पर करोड़ों पेड़ लगायेंगे। उन्होंने कहा कि नर्मदा में मिल रहे दूषित जल को रोकने के लिए कार्य-योजना बनाई जा रही है। नर्मदा तट के सभी गाँवों में मुक्तिधाम और शौचालय बनाये जा रहे हैं। नर्मदा घाटों पर स्नान के लिए आने वाली माता-बहनें सम्मानजनक ढंग से वस्त्र बदल सके, इसके लिए चेंजिंग-रूम भी बनाये जायेंगे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 April 2017

narmda yatri

  'नमामि देवी नर्मदे'' - सेवा यात्रा में 11 दिसंबर 2016 से अमरकंटक से लगातार साईकल पर चल रहे सीहोर जिले के निवासी श्री सरदार सिंह कहते हैं कि वह अगले साल फिर विभिन्न नर्मदा घाटों में जाकर देखेंगे कि कितना कार्य हुआ है । घाटों पर किये गये कार्यों की जानकारी मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान को देंगे । श्री सिंह ने कहा कि मुझे पूरा विश्वास है कि माँ नर्मदा के तट पर रहने वाले लोगों ने जो संकल्प लिया है, उसे ज़रूर पूरा करेंगे । पौध-रोपण और स्वच्छता का कार्य अगर अभी भी नहीं किया तो फिर माँ नर्मदा को बचाना मुश्किल होगा । निर्मल नर्मदा बहे सर्वदा श्री सरदार सिंह के साथ ही अन्य यात्रियों ने कहा कि माँ नर्मदा में मिल रहे शहरों के गंदे नालों के पानी को रोकना ही होगा । उन्होंने कहा कि कई स्थानों पर इतनी गंदगी है िक नदी में आचमन करने की इच्छा नहीं होती । सभी ने एक स्वर में ' निर्मल नर्मदा बहे सर्वदा'' का नारा लगाते हुए कहा कि उन्हें पूरा भरोसा है कि मुख्यमंत्री के प्रयासों से इस नारे का अभिप्राय अवश्य पूरा होगा । श्री सरदार सिंह इसके पूर्व साईकल से ही तीन बार वैष्णो देवी, कांगड़ा, नैनादेवी सहित अन्य तीर्थों की यात्रा कर चुके हैं । 'नमामि देवी नर्मदे'' - सेवा यात्रा के 115 वें दिन यात्रा की शुरूआत जबलपुर जिले के ग्राम बेलखेड़ा से माँ नर्मदा की आरती के साथ हुई ।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 April 2017

मुरारी बापू

प्रदेश में नशामुक्ति का आंदोलन चलेगा : चौहान यात्रा के 100वें दिन ग्राम जैत में जन-संवाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मध्यप्रदेश में नशामुक्ति का आंदोलन चलेगा। इसके प्रथम चरण में नर्मदा नदी के दोनों तटों पर पाँच-पाँच किलोमीटर की शराब की दुकानें आगामी एक अप्रैल से बंद कर दी जायेगी। उन्होंने कहा कि नदियाँ बचेंगी तो मानव सभ्यता और संस्कृति बचेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज नर्मदा सेवा यात्रा के 100 वें दिन ग्राम जैत में आयोजित जन-संवाद को संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम में राष्ट्र संत श्री मुरारी बापू और संत श्री कमल किशोर नागर विशेष रूप से उपस्थित थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आगामी दो जुलाई को अमरकंटक से बड़वानी तक नर्मदा के तट पर लाखों लोग करोड़ों पेड़ लगायेंगे। नर्मदा मध्यप्रदेश की जीवनदायिनी है। यह मध्यप्रदेश की समृद्धि का आधार है। प्रदेश के दर्जनों शहरों को पेयजल उपलब्ध कराती है। इसकी कृपा से मध्यप्रदेश को चार बार कृषि कर्मण अवार्ड मिला है। यह प्रदेश को सिंचाई के लिए जल और बिजली उपलब्ध कराती है। नर्मदा सेवा यात्रा नर्मदा को बचाने और उसका कर्ज उतारने की यात्रा है। उन्होंने कहा कि नर्मदा के दोनों तटों के शहरों में ट्रीटमेंट प्लांट बनाये जाएंगे। उन्होंने संकल्प दिलाया कि नर्मदा के तटों पर पेड़ लगायें, इसके किनारे के गाँवों में हर घर में शौचालय बनायें, पूजन-सामग्री पूजन कुण्ड में डालें। नर्मदा के किनारे चेंजिंग रूम और मुक्तिधाम बनाये जायें। मुख्यमंत्री ने कहा कि बेटियों के साथ दुराचार करने वालों को फाँसी की सजा देने का कानून बनाया जायेगा। उन्होंने कहा कि बेटियों को बचायें, हर बच्चे को स्कूल भेंजे। उन्होंने कहा कि नर्मदा के लिये नर्मदा कोष की स्थापना की जायेगी। इस कोष की शुरूआत में संत मुरारी बापू ने 11 हजार रूपये का योगदान दिया। संत कमल किशोर नागर ने ओंकारेश्वर के नर्मदा घाटों के जीर्णोद्धार के लिये एक करोड़ एक लाख रूपये की राशि देने की घोषणा की। राष्ट्र संत श्री मुरारी बापू ने कहा कि नदियों, वृक्षों और पहाड़ों को प्रेम करें क्योंकि जिससे हम प्रेम करेंगे उसे प्रदूषित नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री चौहान एक अनुष्ठान के रूप में शासन चला रहे हैं। अनुष्ठान के रूप में शासन से अद्भुत परिणाम मिलते हैं। ऐसा मानव होना चाहिए जो सर्वभूतों के कल्याण में रत हो। सबके कल्याण का संकल्प लें। सरकार के साथ जन-जन जुड़े। स्वच्छता अभियान से जुड़ें। मुरारी बापू ने प्रदेश सरकार को आगामी एक अप्रैल से नर्मदा तट की शराब की दुकानें बंद करने के लिए बधाई दी। उन्होंने कहा कि वे स्वयं पाँच पेड़ लगायेंगे। संत श्री कमल किशोर नागर ने कहा कि माँ नर्मदा का जल भगवान महादेव के शरीर से निकला हुआ परम तत्व है। नदी के इस पवित्र जल को पूजन सामग्री एवं गंदगी डालकर गंदा नहीं करें। नर्मदा का प्रवाह अगर कमजोर हुआ, तो भावी पीढ़ियाँ प्रभावित होंगी। उन्होंने बेटियों के मान-सम्मान की रक्षा करने की अपील की। उन्होंने कहा कि अच्छे कार्य को सदैव प्रोत्साहित और बुरे कार्य को हतोत्साहित करना चाहिए। यूनिसेफ के भारत प्रमुख श्री ल्यूस जार्ज ने कहा कि नर्मदा सेवा यात्रा विश्व का अनूठा अभियान है। जिसमें नदी के संरक्षण के लिए समाज और सरकार मिलकर काम कर रहे हैं। सिक्ख धर्मगुरू श्री ज्ञानी दिलीप सिंह ने कहा कि पानी जीवन है। नर्मदा सेवा यात्रा जीवन को बचाने का अभियान है। भोपाल शहर काजी ने कहा कि सभी धर्मों में पानी को साफ रखने और पेड़ लगाने की बात कही गयी है। पूरे देश में यह अभियान चलना चाहिए इससे आने वाली पीढ़ियों को फायदा होगा। स्वागत भाषण मुख्यमंत्री के पुत्र श्री कार्तिकेय ने दिया। कार्यक्रम में विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीताशरण शर्मा, वन मंत्री डॉ. गौरीशंकर शेजवार, जल संसाधन एवं जनसम्पर्क मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह, खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया, श्रम मंत्री श्री अंतर सिंह आर्य, सांसद श्री नंदकुमार सिंह चौहान, यूनिसेफ के प्रदेश प्रमुख श्री माइकल जूमा, प्रदेश भाजपा के संगठन मंत्री श्री सुहास भगत, स्वामी कापरी, संत श्री अखिलेश्वरानन्द जी सहित साधु-संतगण, मुख्यमंत्री की पत्नी श्रीमती साधना सिंह और बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे। मुख्यमंत्री ने अपने ग्राम जैत में नर्मदा सेवा यात्रा की अगवानी की नर्मदा सेवा यात्रा का आज ग्राम जैत आगमन पर भारी उत्साह से स्वागत किया गया। यात्रा के स्वागत के लिये ग्रामीणों ने ग्राम जैत में जगह-जगह स्वागत द्वार बनायें। मुख्यमंत्री श्री चौहान एवं श्रीमती साधना सिंह ने ग्रामीणों के साथ यात्रा की अगवानी की। श्री चौहान यात्रा का ध्वज लेकर और श्रीमती साधना सिंह सिर पर कलश लेकर यात्रा के साथ चलें। मुख्यमंत्री ने सपत्निक कन्या-पूजन और संतों का सम्मान किया। यात्रा के पहुँचने पर ग्रामीणों ने भारी उत्साह-उमंग, आस्था और श्रद्धाभाव के साथ बैण्ड बाजा और महिलाओं ने सिर पर कलश लिए यात्रियों का स्वागत किया। यात्रा में बच्चे, बुजुर्ग, महिलाओं सहित हर वर्ग के लोग शामिल हुए। यात्रा में हुए हर-हर नर्मदे के उद्घोष से आसमान गूँज उठा। यहाँ पर यात्रा में विभिन्न जिलों से उपयात्रा के रूप में आये हुए लोग भी शामिल हुए। इसके बाद माँ नर्मदा की भव्य महाआरती की गई। इस मौके पर प्रसिद्ध गायिका अनुराधा पौडवाल और गायक श्री कैलाश खेर ने अपनी मनभावन प्रस्तुति भी दी।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 March 2017

vivek oberoy narmda yatra

मुख्यमंत्री चौहान ग्राम सुडानिया के जन-संवाद कार्यक्रम में   नर्मदा की अविरल धारा सघन वनों पर निर्भर नर्मदा तट के दोनों किनारों पर जितने सघन वन होंगे, उतना ही तेज प्रवाह नर्मदा का रहेगा। मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने यह बात सुडानिया में जन-संवाद कार्यक्रम में कही। उन्होंने कहा अंधाधुंध वनों के दोहन के कारण प्रदेश की तवा और बेतवा जैसी नदियाँ सूख गयी हैं। इन नदियों में केवल वर्षा ऋतु में ही पानी दिखाई देता है। नर्मदा के साथ इन नदियों के संरक्षण का काम भी शुरू किया जायेगा। उन्होंने कहा कि वर्षा भले ही अच्छी हो, लेकिन वर्षा जल को सहेज कर रखने के प्रयास करने होंगे। लोगों को जल साक्षरता के लिये प्रेरित करना होगा जल और जल की स्वच्छता तभी संभव है जब हमारे मन में जल के प्रति प्रेम और सम्मान का भाव पैदा होगा। मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा हमने जल सुरक्षा के लिए हमारे पूर्वजों द्वारा किये गये प्रयासों पर पानी फेर दिया है। तालाब और कुँओं को पाट दिया है। तात्कालिक स्वार्थों के कारण पृथ्वी पर उपलब्ध संसाधनों का दोहन किया। हमारी नदियाँ सूख रही हैं। उन्होंने कहा कि राजधर्म का उद्देश्य तात्कालिक समस्या हल करने के साथ गम्भीर समस्याओं को हल करना भी है। आमजनों की सहभागिता भी जरूरी है। कार्यक्रम में विधानसभा अध्यक्ष श्री सीतासरन शर्मा, लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह, संत कमल किशोर महाराज, फिल्म अभिनेता श्री विवेक ओबेराय भी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि कन्याएँ अक्षय उर्जा का भंडार है। बेटियाँ देवी हैं, उनका यथोचित सम्मान किया जाना चाहिए। बेटी नही होगी तो सृष्टि भी नहीं बचेगी। बेटी बचाओं-बेटी पढ़ाओं की बात करते हुए श्री चौहान ने कहा कि सरकारी नौकरी में महिलाओं को प्राथमिकता देने के साथ ही शिक्षक की भर्ती में 50 प्रतिशत और पुलिस में 33 प्रतिशत भर्ती महिलाओं की होगी। श्री चौहान ने कहा कि 12वीं की परीक्षा में 75 प्रतिशत से अधिक अंक लाने वाले विद्यार्थियों की उच्च पढ़ाई की फीस सरकार भरेगी। मुख्यमंत्री ने उपस्थित नागरिकों को नर्मदा संरक्षण के प्रति जागरूकता लाने का संकल्प दिलवाया। मुख्यमंत्री ने नर्मदा कलश, ध्वज एवं कन्याओं का पूजन किया। मध्यप्रदेश में बेटी बचाओ, साक्षरता और नशा-मुक्ति को भी नर्मदा सेवा यात्रा से जोड़ा गया है। प्रदेश में 1 अप्रैल से नदी तट के 5-5 किलोमीटर दूर तक की शराब की दुकानें बंद की जायेंगी। पुष्कर से आये कापरी महाराज ने मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा किये जा रहे नर्मदा संरक्षण अभियान को आशीर्वाद दिया। अभिनेता विवेक ओबेराय ने कहा कि नर्मदा यात्रा के प्रयासों को देश के अन्य राज्यों में भी अपनाया जाना चाहिए। पारम्परिक अंदाज में हुआ यात्रा का स्वागत नर्मदा सेवा यात्रा के आज शाम सुडानिया पहुँचने पर महिलाओं ने पारम्परिक परिधानों में सिर पर कलश रखकर यात्रा की अगवानी की। यात्रा में भोपाल और सीहोर जिले की उप-यात्राएँ भी शामिल हुई। नमामि देवि नर्मदे - सेवा यात्रा में शामिल होने पहुँची महिलाओं ने दोपहर बाद पवित्र सलिला नर्मदा में स्नान किया। महिलाओं के समूह ने सुडानिया घाट पर पर्व का वातावरण बना दिया। उनका कहना था कि माँ नर्मदा के पवित्र जल में स्नान करने के लिए किसी समय विषेष का महत्व नहीं है।    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  27 March 2017

 सदगुरू जग्गी वासुदेव

शाहगंज में नर्मदा सेवा यात्रा का अभूतपूर्व स्वागत  नदियों के संरक्षण के प्रति जागरूकता के लिये कन्याकुमारी से उत्तराखंड तक चलेगी जागरूकता रैली   आध्यात्मिक गुरू सदगुरू जग्गी वासुदेव ने कहा कि क्या लालच ने मनुष्य को इतना कठोर ह्रदय बना दिया है कि वह जीवन के स्त्रोत को ही नष्ट करने पर उतारू है। उन्होंने कहा कि क्या इतना अमानवीय हो गया हैं कि बच्चों के भविष्य का भी ख्याल नही है। सदगरू ने कहा कि हर जीवन एक दूसरे से जुड़ा है। नर्मदा बहती रहे इसके लिये जरूरी है कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जो नर्मदा सेवा यात्रा निकाल रहे हैं वह सबसे अच्छा विकल्प है। नर्मदा गरिमापूर्ण बहती रहे इसके लिये इसके तटों पर पेड़ लगाना जरूरी है। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश के लोग भाग्यशाली है उन्हें एक ऐसा मुख्यमंत्री मिला है जिसका दिल धड़कता है। नर्मदा सेवा यात्रा को आशीर्वाद देते हुए कहा कि यह यात्रा अभूतपूर्व रूप से सफल होगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री और केन्द्रीय पर्यावरण मंत्रालय से ऐसा अभियान पूरे देश में चलाने की चर्चा की जायेगी। उन्होंने मुख्यमंत्री को कैलाश तीर्थ पवित्र जल पात्र भेंट किया। आध्यात्मिक गुरू सदगुरू वासुदेव जग्गी ने कहा है कि पवित्र नर्मदा नदी आनंद देती है। यह सभ्यता की जननी है। उन्होंने कहा कि समय आ गया है कि अब हमें सोचना है कि अपनी नदियों के लिये हम क्या कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि शरीर में तीन चौथाई पानी है। पानी कोई वस्तु नही है। यह जीवन निर्माण करता है। उन्होंने कहा कि जब यह शरीर में बहता है तो इसका ख्याल करते हैं लेकिन जब नदियों में बहता है तो उसे गंदा करते हैं। सदगुरू ने कहा कि नर्मदा और गोदावरी के बीच भारत की सभ्यता फली-फूली है। अब नदियाँ छोटी हो रही हैं। सिकुड़ रही हैं। इसका अर्थ यह है कि हमें अपने भविष्य के प्रति चिंता नही है। उन्होंने कहा कि नर्मदा सेवा यात्रा जैसा आंदोलन अभी तक हुआ नही। इसका अर्थ यह है कि हम राष्ट्र के लिये कुछ अच्छा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि नदियों का विकास करके ही राष्ट्र को महान बनाया जा सकता है। सदगुरू ने कहा कि हमें बचाने वाली नदियों को अब हमें बचाना होगा। नर्मदा गौरव के साथ बहती रहे इसके लिये इसके किनारों पर पेड़ लगाना जरूरी हो गया है। इसके लिये नीति बनानी होगी। उन्होंने कहा कि नदियों को बचाने के लिये केन्द्र सरकर से वार्ता चल रही है। उन्होंने कहा कि जब भारत में जंगल थे तो नदियाँ भी कल-कल बहती थी। जंगल खत्म होने से नदियों का बहाव कम हो गया है। उन्होंने कहा कि नदियों के किनारों की मिट्टी बचाना जरूरी है नहीं तो सूरज की गर्मी से मिट्टी रेत में बदल जायेगी और रेगिस्तान बन जायेगा। उन्होंने कहा कि देश में इस दिशा मे जागरूकता लाने के लिये कन्या कुमारी से उत्तराखंड तक जन-जागरूकता रैली निकाली जायेगी। उन्होंने कावेरी नदी का स्मरण करते हुए कहा कि अब कावेरी में साठ प्रतिशत तक जल कम हो गया है और यह नदी विवाद का कारण बन गई है। सदगुरू ने कहा कि भारत ने कई वैज्ञानिक उपलब्धियाँ हासिल की है लेकिन तमाम सीमाओं के साथ देश का किसान देश को अन्न उपलब्ध करा रहा है। दुर्भाग्य यह है कि वह स्वयं का जीवन समाप्त करने के लिये विवश हो जाता है। उन्होंने कहा कि मिट्टी की उर्वरकता बरकरार रखना जरूरी है। मिट्टी बचाने से किसान बचेगा। उन्होंने कहा कि यदि ऐसे ही चलता रहा अगले पच्चीस सालों में कुछ नहीं उग पायेगा। धरती का पोषण होना जरूरी है। मालवा के संत श्री कमल किशोर नागर ने भी नदी को बचाने के लिये आत्म-प्रेरणा से प्रयास करने का आव्हान किया। उन्होंने लोगों से अपील की कि वे पूरे मनोभाव से नर्मदा सेवा यात्रा से जुडे़। उन्होंने कहा कि नदी, कन्या और गाय के संरक्षण का संकल्प लें।  मुख्यमंत्री ने अपने उदबोधन में कहा कि नर्मदा के बिना जीवन नहीं चल सकता। उन्होंने कहा कि नर्मदा को अविरल बनाने के लिए संपूर्ण समाज को आगे आना होगा। जल की धार बचाने के लिए लाखों लोग करोड़ों पेड़ लगाएंगे। किसानों की जमीन पर फलो के पेड़ लगाए जाएंगे। दो जुलाई को एक साथ वृक्षारोपण किया जायेगा। सभी शहरो में ट्रीटमेंट प्लांट लगाएंगे जिससे गन्दा पानी नदी में मिलने नही पाये। उन्‍होंने शौचालय का उपयोग करने, पूजन सामग्री भी नर्मदा जल में नहीं डालने, मूर्तिया विसर्जित नहीं करने का संकल्प दिलाया। उन्होंने कहा कि नर्मदा किनारे विसर्जन कुंड बनाये जाएंगे। मुक्ति-धाम बनाया जायेगा। नशामुक्ति का अभियान पूरे प्रदेश में चलेगा। नर्मदा किनारे शराब की दुकानें बंद कर दी जाएंगी। उन्होंने कहा कि बेटियों के बिना संसार नहीं चल सकता। बेटियो के मान-सम्मान को ठेस पहुँचाने वालो को फाँसी होना चाहिए। राज्य सरकार कानून बना रही है। इसे भारत सरकार के पास भेजेंगे।   केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्री  श्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि  नर्मदा माँ के चरणों में प्रणाम करने शामिल हुआ हूँ। उन्होंने कहा कि सेवा यात्रा में शामिल होकर असीम आनंद का अनुभव हुआ है। उन्होंने कहा कि मनुष्य ने जब अपनी जिम्मेदारी नहीं सम्हाली तो प्रकृति में असंतुलन हुआ है।  आज नदियाँ संकट झेल रही है। मनुष्य के आचरण के कारण यमुना गंगा में प्रदूषण बढ़ा है। शिवराज ने नर्मदा का संकट पहले ही भाँप लिया और यह चेतना  जगाने वाली यात्रा निकाली। उन्होंने कहा क़ि यह आध्यात्मिक कार्यक्रम है और पर्यावरण का सबसे बड़ा अभियान सबसे बड़ा  अभियान बन गया है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने सत्ता की शक्ति का इस्तेमाल जन-कल्याण और पर्यावरण की रक्षा के लिए किया।  पूर्व केंद्रीय मंत्री श्री शाहनवाज हुसैन ने श्री चौहान को संत स्वभाव वाले मुख्यमंत्री बताते हुए कहा कि कई भूमिकाएँ निभाई। नर्मदा सेवा यात्रा में शामिल होने का सौभाग्य मिला। नर्मदाजी सबको पानी देती है। किसी की जाति धर्म नहीं पूछती। उन्होंने कहा कि श्री शिवराज जी सज्जन और शालीन है। वे राजनीति के संत है। शिवराज जी और और नर्मदा जी का स्वभाव एक समान है। जन-कल्याण के काम समान भाव से करते है। इस अवसर पर माँ नर्मदा की महाआरती में शामिल हुए। मुख्यमंत्री बांद्राभान से शाहगंज तक नर्मदा यात्रा ध्वज लेकर और श्रीमती साधना सिंह नर्मदा जल कलश लेकर यात्रा में शामिल हुई। हजारो की संख्या में महिलाएँ और बहनें कलश लेकर यात्रा में शामिल हुईं। नर्मदा यात्रा के शाहगंज आगमन पर लोगों ने नगर को सजाया था।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  26 March 2017

narmda sunita narayan

मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि वृक्षों को अवैज्ञानिक तरीके से काटकर पूरी मानव सम्पदा को खतरे में डाल दिया गया है। नर्मदा सेवा यात्रा प्रकृति के साथ संतुलन बनाकर दुनिया को बचाने का विनम्र प्रयास है। अलग-अलग दृष्टिकोण से नदियों के संरक्षण के लिए सक्रिय व्यक्तियों, संस्थाओं और संगठनों को एक मंच पर लाकर उनके अनुभवों, विचारों को मूर्तरूप देने की कोशिश नर्मदा यात्रा के माध्यम से की जा रही है। प्रदेश में नदी संरक्षण की समय रहते पहल शुरू हुई है। समाज के सभी वर्गों का सक्रिय सहयोग मिल रहा है। नर्मदा की इस चिन्ता से यह अविरल बहेगी। जिस प्रकार समाज के सभी वर्ग नर्मदा यात्रा में शामिल हो रहे हैं वह समाज की जल-संरक्षण के प्रति चिन्ता को प्रकट करता है। श्री चौहान सीहोर जिले के ग्राम बांद्राभान में नर्मदा सेवा यात्रा के आगमन पर जन-संवाद कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम में प्रख्यात् पर्यावरणविद् तथा विज्ञान और पर्यावरण केन्द्र नई दिल्ली की निदेशक पद्मश्री सुश्री सुनीता नारायण सहित विभिन्न जन-प्रतिनिधि भी मौजूद थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि नर्मदा को प्रदूषण मुक्त रखने के लिए अब समय आ गया है कि हम अपनी पूजा पद्धति में भी बदलाव लाये। पूजन सामग्री, प्लास्टर ऑफ पेरिस की बनी वस्तुएँ तथा अन्य ऐसी सामग्री जिससे जल प्रदूषित होता है, नर्मदा में न डाले। श्री चौहान ने संत-समाज से अनुरोध किया कि धार्मिक विधियों में ऐसे कार्यों का परित्याग करवाने में अपनी धर्म शक्ति का उपयोग करें ताकि नदियों में जल समाधि की प्रथा समाप्त हो। नर्मदा का अभिषेक नर्मदा के जल से ही किया जाए। जहाँ भी आवश्यक होगा सरकार भी इसमें मदद करेगी। मुख्यमंत्री ने किसान भाइयों से कहा कि - सरकारी जमीन पर वृक्ष वन और उद्यानिकी विभाग लगायेंगे लेकिन नर्मदा को हरी चुनरी पहनाने के लिए किसान अपनी जमीन पर फलदार वृक्ष लगाये। जब तक वृक्षों में फल आयेंगे, तब तक सरकार 20 हजार रू.प्रति हेक्टेयर की दर से मुआवजा देगी। पौधे लगाने पर भी 40 प्रतिशत की सब्सिडी दी जाएगी। वृक्षारोपण के लिए गड्डा खोदने के लिए मजदूरी भी सरकार देगी। पर्यावरणविद् सुश्री सुनीता नारायण ने अपने संबोधन में कहा कि मध्यप्रदेश का यह सौभाग्य है कि यहाँ के नागरिकों को श्री शिवराज सिंह चौहान जैसे मुख्यमंत्री मिले हैं जो नदी संरक्षण यात्रा आयोजित कर सभी को पर्यावरण संरक्षण और नदी संरक्षण के लिये यात्रा आयोजित कर जन-जागरण कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि अधिकांशतः यह होता है कि जब नदी नष्ट या मृत हो जाती है तथा वायु प्रदूषण जानलेवा स्तर पर पहुँच जाता है, तब लोग पर्यावरण संरक्षण के प्रति जागरूक होते हैं। उन्होंने कहा कि जब भी भौतिक विकास होता है, तो पर्यावरण और नदियों को गंभीर क्षति पहुँचती है। आज जरूरत है भौतिक विकास के साथ-साथ पर्यावरण को भी संरक्षित रखने की।कार्यक्रम में श्योपुर, ग्वालियर और दिमनी से विभिन्न नदियों के कलश लाकर नर्मदा यात्रा कलश के साथ स्थापित किये गये।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 March 2017

शिवराज सिंह चौहान

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि नर्मदा नदी को स्वच्छ एवं अविरल बनाने के संकल्प के साथ नर्मदा सेवा यात्रा प्रारंभ की गई है। सभी नागरिक नदी संरक्षण के इस महा-अभियान में भागीदार बनें। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज सीहोर जिले के ग्राम नेहलाई में 'नमामि देवि नर्मदे''-सेवा यात्रा के जन-संवाद को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने ग्रामीणों को नर्मदा तट पर फलदार वृक्ष लगाने, बेटी बचाओ अभियान को सफल बनाने, बच्चों को स्कूल में पढ़ाने, नदी में पूजा की पुरानी सामग्री न डालने, दुर्गा एवं गणेश उत्सव के बाद मूर्तियों के विसर्जन, नर्मदा तट पर अंतिम संस्कार, नर्मदा नदी में पॉलिथिन एवं प्रदूषण बढ़ाने वाली अन्य सामग्री विसर्जित न करने तथा प्लास्टिक के दीपक से दीपदान न करने का संकल्प दिलवाया। मुख्यमंत्री ने प्रदेश सरकार की उपलब्धियों पर केन्द्रित कविता पाठ करने वाली दो छात्रा कुमारी सोनम यादव एवं कु. रूचि गौड़ को 5-5 हजार रूपये का पुरस्कार देने की घोषणा की। श्री चौहान ने नर्मदा सेवा यात्रा के दौरान आयोजित भजन प्रतियोगिता के विजेताओं को पुरस्कृत किया। उन्होंने ग्रामीणों को वृक्षारोपण, गाँव में स्वच्छता, जल-संरक्षण एवं नशा मुक्ति संबंधी संकल्प दिलवाया। श्री चौहान ने कहा कि हम सभी को नदियों एवं तालाबों के संरक्षण का संकल्प लेना चाहिए। मुख्यमंत्री ने बताया कि गत वर्ष डिण्डोरी जिले के भ्रमण के दौरान नर्मदा में अत्यन्त कम पानी देखकर उन्हें काफी कष्ट हुआ था तभी उन्होंने नर्मदा सेवा यात्रा आयोजित कर लोगों को नदी संरक्षण अभियान से जोड़ने का संकल्प लिया था, जो आज साकार हो रहा है। उन्होंने कहा कि नर्मदा नदी जीवनदायिनी है। जहाँ एक ओर माँ नर्मदा के जल से बिजली बन रही है, वहीं दूसरी ओर खेतों में हरियाली और किसानों के जीवन में खुशहाली आ रही है। उन्होंने कहा कि यात्रा किसी धर्म या पार्टी विशेष की नहीं है बल्कि अब व्यापक जन-आन्दोलन बन चुकी है। मुख्यमंत्री ने ग्राम नेहलाई में नर्मदा नदी के तट पर आम का पौधा लगाकर ग्रामीणों से अपील की कि वे भी अपने-अपने घरों के आस-पास पौधे लगाये और उन्हें सुरक्षित रखें। उन्होंने बताया कि नर्मदा नदी के दोनों तट पर एक-एक किलोमीटर चौड़ाई में केवल वृक्षारोपण ही किया जायेगा ताकि नदी में पानी की अविरल धारा बनी रहें। मुस्लिम धर्मावलम्बियों ने भी किया यात्रा का स्वागत ग्राम नेहलाई में श्री अब्दुल खान के नेतृत्व में दर्जनों की संख्या में आस-पास के गाँव से आये मुस्लिम धर्मावलम्बियों ने यात्रा का पुष्प-वर्षा कर स्वागत किया। नारियलों से मुख्यमंत्री का स्वागत गाँव की बुजुर्ग श्रीमती जमुना बाई ने श्री शिवराज सिंह चौहान एवं उनकी धर्मपत्नी श्रीमती साधना सिंह चौहान का पाँच नारियल भेंट कर स्वागत किया। मुख्यमंत्री ने भाव-विभोर होकर बताया कि जब मैं पहली बार इस क्षेत्र से चुनाव लड़ रहा था तब श्रीमती जमुना बाई ने गाँव की महिलाओं से 2-2 रूपये एकत्रित कर आशीर्वाद के साथ मुझे भेंट किये थे और कहा था कि विधायक बनकर इस क्षेत्र की महिलाओं की समस्याओं को दूर करना। गाँव को नशामुक्त करने का संकल्प ग्राम नेहलाई में पास के गाँव जाजना से आई एक दर्जन से अधिक महिलाओं ने मुख्यमंत्री के समक्ष संकल्प लिया कि वे अपने गाँव के पुरूषों का नशा छुड़वाकर गाँव को नशा-मुक्त बनायेंगी। इन महिलाओं ने कहा कि चाहे उन्हें इसके लिये कितना ही संघर्ष क्यों न करना पड़े, वे संघर्ष करेंगी। वन विकास निगम के अध्यक्ष श्री गुरू प्रसाद शर्मा, खनिज विकास निगम के अध्यक्ष श्री शिव कुमार चौबे, मध्यप्रदेश किसान आयोग के अध्यक्ष श्री ईश्वर लाल पाटीदार, जन अभियान परिषद के उपाध्यक्ष श्री प्रदीप पाण्डेय, साध्वी सुश्री प्रज्ञा भारती एवं इंदौर जिला पंचायत की अध्यक्ष सुश्री कविता पाटीदार सहित विभिन्न धर्मगुरु और जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 March 2017

नर्मदा तट पर पौधे

सीहोर के बाबरी ग्राम में मुख्यमंत्री  चौहान की घोषणा   नर्मदा सेवा यात्रा पर्यावरण संरक्षण के साथ-साथ जन-जागरण का एक बहुत बड़ा अभियान बन चुकी है। नर्मदा में अविरल जलधारा हमेशा बनी रहे इस उद्देश्य से नर्मदा के दोनों तट पर बड़े पैमाने पर पौधरोपण किया जायेगा। आगामी 2 जुलाई को अमरकंटक से बड़वानी तक एक साथ नर्मदा तट पर लाखों पौधे रोपे जायेंगे। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान आज सीहोर जिले के नसरूल्लागंज विकासखंड के ग्राम बाबरी में नर्मदा सेवा यात्रा पर जनसंवाद को संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम में भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव एवं पूर्व मंत्री श्री कैलाश विजयवर्गीय, साध्वी सुश्री प्रज्ञा भारती, मध्यप्रदेश खनिज विकास निगम के अध्यक्ष श्री शिव चौबे, मध्यप्रदेश वन विकास निगम के अध्यक्ष श्री गुरूप्रसाद शर्मा, मध्यप्रदेश वेयर हाउस कार्पोरेशन के अध्यक्ष श्री आर.एस. राजपूत, मध्यप्रदेश जन अभियान परिषद के उपाध्यक्ष श्री प्रदीप पाण्डेय के अलावा निर्वाणी बाबा लक्ष्मण दास महाराज, प्रसिद्ध भजन गायक चरण सिंह सोढी सहित जन-प्रतिनिधि और संतजन मौजूद थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि नर्मदा तट पर स्थित शहरों का गंदा पानी अब नर्मदा नदी में नहीं मिलने दिया जायेगा। इसके लिये सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट शहरों में स्थापित कर मलजल को शुद्ध किया जायेगा। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट का शिलान्यास 11 मई को करेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार नरवाई को जलाने पर रोक लगाने के लिए सब्सिडी पर ऐसे रोटा वेटर किसानों को उपलब्ध करवायेगी जिसमें गेहूँ के साथ-साथ भूसा भी सुरक्षित रहता है। उन्होंने कहा कि ऐसा करने से गौमाता के लिये भूसा पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हो सकेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कार्यक्रम के दौरान शाजापुर जिले के ग्राम पोलाम कला की भजन गायिका बालिका दुर्गा के भजन से प्रभावित होकर एक लाख रूपये का चेक प्रदान किया। पूर्व मंत्री एवं भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव श्री कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कहा कि पिछले एक दशक में श्री शिवराज सिंह चौहान ने मुख्यमंत्री के रूप में अनेकों सराहनीय कार्य किये पर अब तक सबसे अधिक सराहनीय व प्रशंसनीय कार्य 'नर्मदा सेवा यात्रा' ही है। उन्होंने कहा कि यात्रा में वह आगामी 17 मई को पुन: सपत्निक शामिल होंगे। श्री विजयवर्गीय ने कहा कि माँ नर्मदा ने हमें सब कुछ दिया है। अब हमें नर्मदा सेवा यात्रा के माध्यम से नर्मदा नदी को प्रदूषण मुक्त बनाने का अवसर मातृ ऋण चुकाने के रूप में मिला है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 March 2017

नमामि देवि नर्मदे

मुख्यमंत्री चौहान नसरूल्लागंज के ग्राम मंडी में   मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि नर्मदा नदी के दोनों तटों के ग्रामों को खुले में शौचमुक्त किया जायेगा। उन्होंने कहा कि नर्मदा नदी एक पवित्र नदी है, जो प्रदेश को पेयजल सिंचाई और बिजली देती है। श्री चौहान ने यह बात आज सीहोर के नसरूल्लागंज के ग्राम मंडी में कही। श्री चौहान 'नमामि देवि नर्मदे'-सेवा यात्रा के जनसंवाद कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। इस मौके पर पंडित कमल किशोर नागर सहित अन्य प्रबुद्धजन और धर्मगुरू मौजूद थे। श्रीमती अनुराधा पौडवाल ने कार्यक्रम में भक्तिमय भजनों की प्रस्तुति दी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि नर्मदा सेवा यात्रा से समाज को जागृत कर नर्मदा के दोनों किनारों पर पौधरोपण के साथ ही प्रदूषण से बचाने के लिए लोगों को पूजन सामग्री डालने से रोकने के लिए जागरूक किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पानी के बिना दुनिया नहीं चल सकती। नर्मदा नदी का पूरे प्रदेश पर उपकार है। नर्मदा की कृपा से हमारा प्रदेश देश में कृषि उत्पादन दर में सबसे ऊपर है। यह कर्ज उतारने के लिये नर्मदा सेवा यात्रा शुरू की गई है। श्री चौहान ने कहा कि घर-घर नर्मदा का जल पहुँच रहा है। इससे कई जगह जल संकट समाप्त होगा। श्री चौहान ने कहा कि हमने नर्मदा के दोनों किनारों के पेड़ काट दिए जिससे नर्मदा की धारा कमजोर पड़ने लगी। इसका प्रायश्चित कर नर्मदा नदी के दोनों किनारों पर एक हजार किलोमीटर की सीमा में पेड़ लगाकर करेंगे। इसके लिए सभी सामाजिक संगठनों के लोगों से रजिस्ट्रेशन कराएंगे और उनसे नर्मदा नदी के किनारे पेड़ लगवाएंगे। श्री चौहान ने कहा कि वे स्वयं गृह ग्राम जैत में खेतों में फलदार पेड लगायेंगे। इसके बाद मुख्यमंत्री ने लोगों को नशा मुक्ति का संकल्प दिलवाया और कहा कि एक अप्रैल से नर्मदा किनारे की सभी शराब की दुकान बंद होंगी। गाँव-गाँव में नशा मुक्ति अभियान चलाया जायेगा। उन्होंने कहा कि नर्मदा सेवा यात्रा जनता का आंदोलन बन गई है। समाज का हर तबका और साधु संत इसमें अपनी सहभागिता भी निभा रहे हैं। पंडित कमल किशोर नागर एवं अन्य प्रबुद्धजनों एवं धर्मगुरूओं ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम में छात्राओं ने आदिवासी नृत्य की प्रस्तुति भी दी। कार्यक्रम में श्रीमती साधना सिंह और लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी एवं जनसमूह उपस्थित था। विश्व का सबसे बड़ा और मध्यप्रदेश का अनूठा नदी संरक्षण अभियान नमामि देवि नर्मदे के जय घोषों के साथ जब नर्मदा सेवा यात्रा ने नसरूल्लागंज के ग्राम छीपानेर से प्रातः प्रस्थान कर ग्राम चौरसाखेडी, सातदेव, टिगाली, सीलकंठ होती हुई। ग्राम मंडी पहुंची तो नर्मदा यात्रा के स्वागत के लिए जन सैलाब उमड़ पड़ा। यात्रा में धर्म गुरूओं के अलावा समीपस्थ ग्रामों से अनेक उपयात्राएं भी शामिल हुई जिसमें भारी मात्रा में श्रद्धालुओं ने सहभागिता निभाई। यात्रा का दृश्य अत्यन्त मनोरम था लोग नाचते गाते चल रहे थे। श्रद्धालुओं ने सारे नर्मदा तट को भक्तिमय बना दिया।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 March 2017

फसल बीमा योजना

नमामि देवि नर्मदे कार्यक्रम से आमजन के जुड़ने का आव्हान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज बुधनी तहसील के ग्राम नारायणपुर में लोक कल्याण शिविर में आम जनता का आव्हान किया कि 11 दिसम्बर से शुरू हो रही 'नमामि देवि-नर्मदे'' सेवा यात्रा में पूरे उत्साह से भाग लें और अन्य लोगों को भी इसमें भाग लेने के लिये प्रेरित करें। मुख्यमंत्री  चौहान ने नारायणपुर में 16 करोड़ रूपये से अधिक लागत के विभिन्न कार्यों का शिलान्यास किया। मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि 'नमामि देवि नर्मदे'' सेवा यात्रा एक पवित्र एवं महत्वाकांक्षी यात्रा है। यह जन-जन का कार्यक्रम है। इस यात्रा में सभी धर्मगुरूओं, संतों, समाज-सेवियों, जन-प्रतिनिधियों, सांस्कृतिक संस्थाओं के लोगों को जोड़ा जा रहा है। उन्होंने नर्मदा नदी के संरक्षण के लिए प्रारंभ की जा रही नर्मदा सेवा यात्रा को दुनिया में सबसे बड़ा एवं नदी संरक्षण का अनूठा आन्दोलन बनाने का आव्हान किया। श्री चौहान ने कहा कि नर्मदा के दोनों ओर सरकारी एवं निजी भूमि पर बड़े पैमाने पर फलदार पौधे लगाए जायेंगे। निजी भूमि पर वृक्षारोपण के लिए तीन वर्ष तक राज्य सरकार निर्धारित दर पर मुआवजा देगी। इसके साथ ही नर्मदा के किनारे खेती में जैविक खाद का उपयोग किया जाएगा। उन्होंने कहा कि नर्मदा के किनारे सभी गाँवो में शौचालय बनाए जायेंगे तथा नर्मदा में मिलने वाले सीवेज को ट्रीटमेंट के बाद छोड़ा जाएगा। सभी घाटों पर महिलाओं के लिए चेंजिंग रूम बनाने के साथ ही डस्टबिन भी रखी जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि फसल बीमा योजना में सीहोर जिले के करीब 1 लाख 45 हजार किसानों को 400 करोड़ रूपये की राशि स्वीकृत की गई है। यह राशि किसानों के बैक खातों में जमा करवाई जा रही है। उन्होंने कहा कि सरकार प्रदेश के बहुमुखी विकास के लिए कृत-संकल्पित है। महिलाओं के आर्थिक-सामाजिक विकास के लिए स्व-सहायता समूह बनाए जाने पर जोर देते हुए मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इन समूहों को बैंक लिंकेज उपलब्ध करवाया जायेगा। उन्होंने नारायणपुर गाँव के सभी घरों को खरंजा से जोड़ने के निर्देश दिये। मुख्यमंत्री ने 47 आवासहीन परिवारों को घर बनाकर दिये जाने को कहा। लोक निर्माण मंत्री और सीहोर जिले के प्रभारी मंत्री  रामपाल सिंह ने कहा कि प्रदेश में हर क्षेत्र में उल्लेखनीय प्रगति हुई है। कार्यक्रम में जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती संध्या मरेठा, मार्कफेड अध्यक्ष श्री रमाकांत भार्गव, अध्यक्ष वन विकास निगम श्री गुरूप्रसाद शर्मा और बड़ी संख्या में ग्रामीण जन उपस्थित थे।नारायणपुर में लोक कल्याण शिविर में भाग लेने के बाद मुख्यमंत्री श्री चौहान ने ग्राम बेसाखेड़ी, जनवासा, तिलोद आदि गाँव में ग्रामीणों से सम्पर्क किया।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  27 November 2016

कार और ट्रक की टक्कर में तीन की मौत

भोपाल-इंदौर हाइवे पर गुरुवार सुबह कार और ट्रक की टक्कर में कार सवार तीन लोगों की मौत हो गई और दो घायल हो गए। घायलों को आष्टा के सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। दुर्घटना में कार के परखच्चे उड़ गए। मृतकों में पति-पत्नी और उनके बहू शामिल है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार सुबह आठ बजे हाइवे पर पगरिया घाटी मॉर्डन डेरी के पास रायपुर से इंदौर जा रही कार सीजी 04 केएस 7290 खड़े ट्रक एमपी 09 एडी 2004 से टकरा गई। टक्कर इतनी तेज थी कि कार के परखच्चे उड़ए गए। मृतकों के नाम छाया कानूनगो, प्रकाश कानूनगो और सुरभि कानूनगो निवासी रायपुर है। घायलों के नाम डॉक्टर अभिषेक और अक्षत कानूनगो निवासी सतना है। मृतकों के शव को पीएम के लिए सीहोर भेजा गया है। जानकारी के अनुसार घायल डॉ अभिषेक कानूनगो इंदौर के साईं जानकी अस्पताल में कार्यरत हैं। हादसे में मृत सुरभि सतना के ख्यात व्यवसायी बृजेश खंडेलवाल की बेटी है। हादसे में सुरभि के पति और बेटे गंभीर रूप से घायल हैं। जबकि प्रकाश कानूनगो और छाया कानूनगो अभिषेक के माता-पिता है जो रायपुर के अशोक रत्न ब्लॉक 20 के फ्लेट नंबर 104 में रहते थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  24 November 2016

barish madhyprdesh

  बन रहा है एक और डीप डिप्रेशन प्वाइंट और बरसेंगे बादल      मध्य प्रदेश के मैहर में बारिश के बाद एक बिल्डिंग भरभरा के गिर गई। पिछले 24 घंटे में भारी बारिश के कारण 15 लोगों की मौत हो गई हैं।  इसमें सागर जिले में 7 , कटनी में 2 ,  छतरपुर में 3 और  सांची में तीन लोगों की मृत्यु हुई है । मुख्यमंत्री ने मृतक के परिजनों को 4-4  लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है ।    मैहर में हाउसिंग बोर्ड की बिल्डिंग गिरने के पीछे गंभीर लापरवाही सामने आई है। बताया जा रहा है कि जमीन धंसने के कारण छोटे हुए पिलर को हाउसिंग बोर्ड ने उसी के उपर चुनाई करा कर बढ़वा दिया था। बताया जा रहा है यह निर्माण इंजीनियर यशवंत दोहरे और उपयंत्री द्विवेदी के संरक्षण में हुआ था। इसमें ठेकेदारों और इंजीनियरों की मिलीभगत भी सामने आ रही है। बिल्डिंग का निर्माण 2 साल पहले हुआ था।   सागर के राहतगढ़ में एक मकान के गिरने से सात के मरने तथा तीन लोगों के घायल होने की खबर है। राहतगढ़ में यह घटना रात दो बजे बताई जा रही है। बारिश के चलते सागर का जबलपुर छतरपुर आदि शहरों से सम्पर्क कट गया है। बुंदेलखंड के छतरपुर, दमोह, पन्ना और कटनी में जोरदार बारिश से जनजीवन प्रभावित है। दमोह जिले के मड़ियादो-हटा,पटेरा,रनेह,छतरपुर और पन्ना जिले से संपर्क टूट गया।   बाढ़ के हालातों का जायजा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ले रहे  हैं।मुख्यमंत्री ने बारिश से  मारे गए लोगों के परिजनों के लिए 4-4 लाख रुपए मुआवजे का भी ऐलान किया है। इससे पहले मुख्यमंत्री ने  अपने निवास पर  आपदा प्रबंध से जुड़े आला अफसरों की बैठक बुलाई। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये हैं कि प्रभावित क्षेत्रों के बांधों से पानी एक साथ नहीं छोड़ा जाये।  पानी उतरने के बाद नुकसान सर्वे का काम तुरंत शुरू किया जाये।   मध्य प्रदेश के कई इलाकों में आने वाले कुछ दिन मौसम के लिहाज से बेहद खतरनाक साबित होने वाले हैं। मौसम विभाग का कहना है कि 17 अगस्त को बंगाल की खाड़ी पर बना डीप डिप्रेशन अब मध्य भारत की ओर  है। 20 अगस्त को मध्य प्रदेश इस डीप डिप्रेशन की चपेट में रहेगा। मौसम विभाग का कहना है कि इन दो दिनों में मध्य प्रदेश में तूफानी बारिश होने की आशंका है। इतना ही नहीं, 22 अगस्त से एक और डीप डिप्रेशन प्वाइंट बंगाल की खाड़ी में एक्टिव हो जाएगा, जिसके बाद मध्य प्रदेश एक बार फिर से भारी बारिश की चपेट में होगा।    मौसम विभाग का कहना है कि इस दौरान बारिश का तीव्रतम प्रकोप देखने को मिल सकता है। मॉनसूनी हवाओं के कारण प्रदेश के पूर्वी इलाकों में 50 किमी प्रतिघंटे तक की तेज हवाएं चल सकती हैं। इसके साथ ही मूसलाधार बारिश तूफान का रूप अख्तियार कर सकती है। मौसम विभाग के मुताबिक पूरा प्रदेश इसकी चपेट में आने की संभावना है। लेकिन शुरूआती तौर पर इसका असर पूर्वी मध्य प्रदेश में देखने को मिलेगा, जहां पहले ही बारिश बीते एक हफ्ते से अपना कहर बरपा रही है। इस स्थिति में इन इलाकों में हालात और बिगड़ने की आशंका है।    प्रदेश में रेड अलर्ट जारी : सतना और रीवा सम्भागों में मूसलाधार बारिश के बाद अब डीप डिप्रेशन प्वाइंट के आगामी असर को देखते हुए प्रदेश में रेड अलर्ट जारी कर दिया गया है। 19 अगस्त से शुरू होने वाले इस रेड अलर्ट को आने वाले दिनों तक जारी रखने का फैसला किया गया है। आंकड़े बताते हैं कि आने वाला एक हफ्ता प्रदेश के लिए मूसलाधार बारिश वाला साबित हो सकता है, लिहाजा प्रदेश में रेड अलर्ट घोषित कर दिया गया है। रेड अलर्ट जारी करने का मतलब है कि प्रदेश में कई इलाकों में भारी से अति भारी बारिश हो सकती है। इस बारिश का दायरा काफी बड़ा होगा, जो जनजीवन को बुरी तरह प्रभावित करेगा।    सतना-रीवा में हालात बदतरमध्य प्रदेश के पूर्वी इलाकों में भारी बारिश के कारण बने हालातों का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि रीवा शहर को बाढ़ के खतरे के कारण खाली कराया जा रहा है। कई इलाकों में पानी भरने के बाद लोग पहले ही पलायन कर चुके हैं। बाकी लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा रहा है। रीवा, सतना और पन्ना में बीते हफ्ते भर से मूसलाधार बारिश जारी है। ज्यादातर सम्पर्क मार्ग कट चुके हैं, दर्जनों घर धराशायी हो चुके हैं और लाखों लोग जलभराव के बाद बुरी तरह प्रभावित हुए हैं। मौसम विभाग के चेतावनी के बाद रीवा और सतना जिलों में हालात और खराब होने की आशंका जताई जा रही है।   कटनी में भी जनजीवन प्रभावितमूसलाधार बारिश की चपेट में आने के बाद कटनी में भी हालात खतरनाक हो गए हैं। इलाके की कई नदियों के जलस्तर में तेजी से बढ़ोत्तरी हो रही है। तेज बारिश के कारण कई जगहों से घरों के गिरने की खबर है, तो वहीं घरों में पानी घुसने के बाद लोगों को अपना घर छोड़ना पड़ रहा है। कटनी में हालात बिगड़ने के बाद प्रशासन ने अलर्ट जारी कर दिया है। वहीं बारिश से प्रभावित लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा रहा है। बंगाल की खाड़ी में बना है डीप डिप्रेशन प्वाइंटमौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक बंगाल की खाड़ी से उठा डीप डिप्रेशन इस वक्त झारखंड के ऊपर बना हुआ है। जिसके कारण मॉनसूनी हवाओं का बहाव छत्तीसगढ़ से लेकर पूरे मध्य प्रदेश में बना हुआ है। प्रदेश में कई जगह मूसलाधार बारिश हो रही है। सतना और रीवा जिले पहले ही बाढ़ की मार झेल रहे हैं। अनुमान है कि एक से दो दिन इन इलाकों के अलावा प्रदेश के कई इलाकों में भारी बारिश हो सकती है। पूर्व से पश्चिम तक एक साथ भीगेगा प्रदेशमौसम विभाग का अनुमान है कि मध्य प्रदेश के पूर्वी इलाकों में बारिश की स्थिति बद से बदतर हो सकती है। माना जा रहा है कि मध्य प्रदेश के पूर्वी हिस्से में मूसलाधार बारिश हो सकती है। हालांकि सतना और रीवा सम्भाग पहले ही बाढ़ की मार झेल रहा है। इन इलाकों में जनजीवन बुरी तरह प्रभावित है। यदि मौसम विभाग का अनुमान सही बैठता है तो सतना रीवा में स्थिति और गंभीर हो सकती है।  पूर्वी इलाकों में मॉनसून की अति सक्रियता के बाद इसके पश्चिमी क्षेत्र की ओर बढ़ने का अनुमान भी लगाया जा रहा है। माना जा रहा है 20 अगस्त को भारी से अति भारी बारिश का ये दौर मध्य प्रदेश के पश्चिमी क्षेत्र की ओर बढ़ जाएगा। 72 घंटे तक रहेगा प्रभावमौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक कम दबाव के इस क्षेत्र का प्रभाव प्रदेश में 72 घंटे तक रहने का अनुमान है। मध्य प्रदेश के साथ साथ बिहार और पूर्वी उत्तर प्रदेश में भी भारी बारिश का सिलसिला अगले दो से तीन दिनों तक जारी रहेगा।    बन रहा है एक और डीप डिप्रेशन प्वाइंट : मध्य प्रदेश के लिए सिर्फ दो दिन ही भयंकर नहीं हैं। मौसम विभाग का कहना है कि 20 अगस्त को जब मॉनसून प्रदेश में अपनी अतिसक्रियता दिखा रहा होगा, उसी वक्त बंगाल की खाड़ी में एक और डीप डिप्रेशन प्वाइंट बनेगा। जिसकी सक्रियता 22 अगस्त से प्रदेश में नजर आएगी। यानि आने वाला पूरा एक सप्ताह मध्य प्रदेश में भारी बारिश वाला साबित होगा। बंगाल की खाड़ी से मिले मौसम के आंकड़ों के मुताबिक कम दबाव के दूसरा क्षेत्र  एक्टिव हो गया है । जिसके बाद 22 और 23 अगस्त को उड़ीसा, पश्चिम बंगाल, बिहार, झारखंड होते हुए मध्य प्रदेश में मूसलादार बारिश करवाएगा। 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 August 2016

ujjwala yojna

  सीहोर  में प्रधानमंत्री उज्जवला योजना        सीहोर जिले के नसरुल्लागंज में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रधानमंत्री उज्जवला योजना का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि जिले में एक लाख पाँच हजार पात्र महिलाओं को इस योजना में नि:शुल्क गैस कनेक्शन प्रदाय किये जायेंगे। यह योजना महिलाओं के स्वास्थ्य संवर्धन तथा पर्यावरण और वन-संरक्षण में महती भूमिका निभायेगी। उन्होंने कहा कि ये कनेक्शन पूर्णत: नि:शुल्क हैं। यदि कोई गड़बड़ करेगा तो कठोर कार्यवाही की जायेगी। सीधे सी.एम. हाउस शिकायत करें। उन्होंने प्रतीक स्वरूप कनेक्शन भी वितरित किये।   मुख्यमंत्री ने कहा कि अब आर्थिक विपन्नता उच्च शिक्षा में बाधक नहीं होगी। उन्होंने कहा कि 15 अगस्त से एक योजना प्रारंभ कर रहा हूँ, जिसमें सभी वर्ग के पात्र बच्चों की उच्च-तकनीकी एवं व्यावसायिक शिक्षा का खर्च शासन वहन करेगा। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही बुदनी विधानसभा के प्रत्येक गाँव और घर में नल-जल योजना के माध्यम से नर्मदा जल उपलब्ध करवाया जायेगा। श्री चौहान ने कहा कि पात्र लोगों को आवास पट्टा वितरण जारी है। वर्ष 2022 तक प्रदेश में कोई भी आवासहीन नहीं रहेगा। उन्होंने बताया कि फसल बीमा योजना का लगभग 4300 करोड़ रुपये शीघ्र ही कृषकों को दिया जायेगा। उन्होंने छात्राओं की माँग पर लाड़कुई महाविद्यालय की सीट 120 से बढ़ाकर 200 करने की घोषणा की। उन्होंने नीलकंठ मंडी, आँवलीघाट और छीपानेर में घाट निर्माण करवाने की बात कही। उन्होंने बताया कि नर्मदा संरक्षण के लिये 1500 करोड़ रुपये की कार्य-योजना बनायी गयी है। मुख्यमंत्री ने उपस्थित जन-समूह को स्वच्छता, शिक्षा, बेटी बचाने एवं पर्यावरण संवर्धन के लिये कम से कम एक पौधा लगाने की शपथ दिलवायी।   मुख्यमंत्री ने हाल ही में जनपद की खुले से पूर्णत: शौच मुक्त 22 पंचायत के सरपंचों का सम्मान भी किया। कार्यक्रम में 1025 हितग्राही को आवासीय पट्टे, 2000 को गैस कनेक्शन प्रदान किये गये। कार्यक्रम को वन विकास निगम के अध्यक्ष श्री गुरु प्रसाद शर्मा ने भी संबोधित किया।   कार्यक्रम में प्रदेश के लोक निर्माण एवं विधि-विधायी कार्य और जिला प्रभारी मंत्री ठाकुर रामपाल सिंह, मार्कफेड अध्यक्ष  रमाकांत भार्गव, वेयर-हाउसिंग कार्पोरेशन के अध्यक्ष  राजेन्द्र सिंह राजपूत, लघु वनोपज संघ उपाध्यक्ष  रामनारायण साहू और जिला पंचायत अध्यक्ष  उर्मिला मरेठा सहित अन्य जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 July 2016

वल्र्डकप की सबसे छोटी ट्राफी

अमित कुईयासीहोर। आने वाले 18 सितम्बर को श्रीलंका में शुरु होने जा रहे वल्र्डकप 20-20 मैचों का रोमांच क्रिकेट प्रेमियों में दिखना अभी से शुरु हो गया है तो वहीं दूसरी ओर सीहोर के एक क्रिकेट प् रेमी ने इस वल्र्डकप ट्राफी की हुबहू चांदी की धातू में एक सबसे छोटी प्रतिकृति तैयार की है जो सबको चौका रही है। साथ ही यह भी माना जा रहा है कि यह ट्राफी शायद दुनिया की सबसे छोटी ट्राफी में भी शुमार हो। यह कारनामा किया है सीहोर के एक तीस वर्षीय सरार्फा व्यवसायी नितिन सोनी ने। सरार्फा व्यवसायी नितिन सोनी के अनुसार उन्होंने गुगल सर्च पर जाकर वल्र्डकप 20-20 की ओरिजनल ट्राफी आज से दो माह पूर्व देखी थी। जिसके बाद उनके दिल में तमन्ना जागी कि वह इस ट्राफी की हुबहू नकल तैयार करें। यह जज्बा मन में लिए श्री सोनी ने मात्र दो दिन में वल्र्डकप 20-20 की 2 सेमी लंबाई में एक छोटी प्रतिकृति तैयार कर सबको चौका दिया है। दो दिन में तैयारश्री सोनी इस वल्र्डकप ट्राफी को दुनिया की सबसे छोटी ट्राफी होने का दावा करते हैं उनके अनुसार 20-20 की यह ट्राफी उन्होंने महज दो दिन में तैयार की है। इस ट्राफी का कुल वजन 2 ग्राम 220 मिली ग्राम है और इसकी कुल लंबाई महज दो सेमी है। पहले भी किया कारनामाश्री सोनी इससे पहले वल्र्डकप क्रिकेट की हुबहू प्रतिकृति तैयार कर चुके हैं और उस वक्त भी उन्होंने इस ट्राफी को सबसे छोटा होने का दावा किया था, जो कोई खारिज नहीं कर सका। हालांकि यह दुखद पहलू है कि छोटे शहर से हुआ यह बड़ा काम राष्ट्रीय स्तर पर पहचान नहीं बना सका। मैन ऑफ द मैच को मिले मेरी ट्राफीसरार्फा व्यवसायी एवं प्रतिभाशाली सरार्फे की कारीगिरी में निपुर्ण नितिन सोनी बताते हैं कि उनका यह सपना है कि उनके द्वारा बनाई गई यह प्रतिकृति ट्राफी श्रीलंका में आगामी दिनों में आयोजित होने वाले वल्र्डकप 20-20 मैच के दौरान मैन ऑफ द मैच खिलाड़ी को यह ट्राफी दी जा सकें। जिसके लिए वह मप्र क्रिकेट एसोसिएशन के पदाधिकारियों से बात भी करेंगे। अमित का ये लेख उनके फेसबुक से साभार

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

cm  बोले भांजियों की शादी है बारात का स्वागत मैं स्वयं करूँगा

सीहोर जिले के नसरुल्लागंज के ग्राम पिपलानी में 114 गोंड आदिवासी जोड़ों का विवाह मुख्यमंत्री कन्यादान योजना में हुआ। इनमें एक जोड़ा दिव्यांग तथा दो दिव्यांग दूल्हे शामिल हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नव-युगल को सुखी वैवाहिक जीवन की शुभकामनाएँ देते हुए आशीर्वाद दिया। चौहान ने आयोजन समिति को विनम्रता से स्वयं के स्वागत के लिये यह कहते हुए इंकार कर दिया कि उनकी भांजियों की शादी है, स्वागत तो वे करेंगे बारातियों का। मुख्यमंत्री चौहान ने नसरुल्लागंज जनपद पंचायत अध्यक्ष दुलारीबाई धुर्वे के पुत्र की शादी भी इस योजना में होने को अनुकरणीय बताया। उन्होंने कहा कि प्रदेश में 2 लाख 16 हजार वन भूमि के पट्टे वितरित किये गये हैं। आवास के पट्टे दिये जाने का काम भी किया जा रहा है। वर्ष 2022 तक प्रदेश में कोई भी आवासहीन नहीं रहेगा। उन्होंने कहा कि संपूर्ण गोंडवाना का विकास किया जा रहा है।खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री कुँवर विजय शाह ने नवयुगल को आशीर्वाद देते हुए कहा कि प्रदेश में गोंड समाज के इतिहास को प्रकट करने तथा संरक्षण-संवर्धन में मुख्यमंत्री चौहान के विशेष प्रयास रहे हैं। मंत्री शाह ने सभी नव-दम्पतियों को दीवार घड़ी उपहार में दी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ग्राम बावडिय़ाखेड़ा में यज्ञ में शामिल हुए। ग्राम रफीकगंज (लोदड़ी) में कृषि उपज मण्डी नसरुल्लागंज की अध्यक्ष लीलाबाई-रामजी यादव के पुत्र के विवाह में नवयुगल को आशीर्वाद दिया। उन्होंने ग्रामवासियों को बताया कि सनरोहा और मोगरा में डेम निर्माण के लिये सर्वे का काम चल रहा है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

फसल बीमा योजना में और सुधार के प्रयास

पिछले साल किसानों को दी थी 12 हजार करोड़ से अधिक की सहायता मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि किसानों के हक में फसल बीमा योजना में और सुधार के लिये लगातार प्रयास किये जा रहे हैं। इसके लिये केन्द्र सरकार से भी बातचीत चल रही है। श्री चौहान सीहोर जिले के नसरूल्लागंज में फसल बीमा योजना में बीमा राशि के प्रमाण-पत्र वितरण की शुरूआत कर रहे थे। उन्होंने करीब 50 किसान को प्रतीक स्वरूप प्रमाण-पत्र वितरित किये। सीहोर जिले में 296 करोड़ 50 लाख के प्रमाण-पत्र किसानों को दिये जायेंगे। इतिहास में पहली बार प्रदेश में 34 जिले में 14 लाख 20 हजार 602 किसान को 2,167 करोड़ 43 लाख की दावा राशि के प्रमाण-पत्र दिये जायेंगे।उल्लेखनीय है कि देश में पहली बार मध्यप्रदेश ने वर्ष 2013-14 में किसानों को राज्य के संसाधनों से ओला-पाला राहत, समर्थन मूल्य पर बोनस और विभिन्न किस्म की सब्सिडी के रूप में डेढ करोड़ से अधिक किसान को 12 हजार 345 करोड़ की राशि वितरित की थी। यह राशि अधिकांश किसानों के बेंक खाते में सीधे जमा हुई।उल्लेखनीय है कि राष्ट्रीय कृषि बीमा में प्रदेश के 14 लाख 21 हजार किसान का 2,187 करोड़ का दावा स्वीकृत किया गया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा खरीफ किसानों को बीमा दावों का भुगतान करवाने के लिये निरंतर प्रयासों के फलस्वरूप प्रदेश के इतिहास में योजना प्रारंभ से लेकर अब तक किसानों को सबसे बड़ी बीमा राशि का भुगतान मिला है। योजना आरंभ वर्ष 1999 से लेकर वर्ष 2013 तक बीमा योजना में मात्र 2000 करोड़ रूपये के फसल बीमा दावों का भुगतान हुआ था। इसकी तुलना में खरीफ 2013 के तहत 2,187 करोड़ रुपये की राशि का भुगतान किया जा रहा है।प्रदेश में कृषि उपकरणों पर वेट कर समाप्तश्री चौहान ने किसानों से फूलों एवं फलों का उत्पादन बढ़ाने और खेती की नई तकनीकें अपनाने का आव्हान किया। उन्होंने कहा कि खेती में उपयोग किये जाने वाले उपकरणों पर वेट समाप्त कर दिया गया है, आगे और भी कदम उठाये जायेंगे। उन्होंने कहा कि खेती की व्यवस्था में आमूलचूल बदलाव लाकर उसे अधिक से अधिक लाभकारी बनाया जा रहा है। उन्होंने किसानों को इस कार्य में सक्रिय योगदान करने की शपथ भी दिलायी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

Video
Advertisement
x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved ©2024 MadhyaBharat News.