Since: 23-09-2009

  Latest News :
इमरान की पार्टी के खिलाफ सेना ने खोला मोर्चा.   बांग्लादेशियों को शरण देने के ममता बनर्जी के बयान पर राज्यपाल ने मांगा जवाब.   केंद्रीय बजट में बिहार के लिए खोला पिटारा आंध्र को 15 हजार करोड़ रुपये का पैकेज.   पंजाब में नया राजनीतिक दल बनाएंगे कट्टरपंथी सांसद सरबजीत सिंह खालसा.   सरकारी कर्मचारी भी संघ के कार्यक्रमों में हो सकेंगे शामिल.   जवाब मिलने तक नीट का मुद्दा उठाते रहेंगे : राहुल गांधी.   कमलनाथ ने केन्द्र सरकार के बजट काे बताया दृष्टिहीन.   इंदौर से रीवा जा रही यात्रियाें से भरी बस पलटी.   बुजुर्ग ने लाइसेंसी बंदूक से खुद को गोली मारी.   मुख्यमंत्री डॉ. यादव की अध्यक्षता में मंत्रि-परिषद के निर्णय.   जलती चिता से निकाला विवाहिता का शव.   धार्मिक कार्यक्रम में मंत्री प्रहलाद पटेल की तबीयत बिगड़ी.   विकसित भारत के लिए यह बजट मील का पत्थर साबित होगा-मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय.   छग विधानसभा मानसून सत्र : अनुपूरक बजट पर चर्चा.   बजट निराश करने वाला और देश को बर्बाद करने वाला- दीपक बैज.   विधानसभा में भाजपा विधायक धरमलाल कौशिक का जल जीवन मिशन में भारी गड़बड़ी का आरोप.   छत्तीसगढ़ की बेटियों ने राज्य और देश का मान बढ़ाया- खेल मंत्री वर्मा.   नगर निगम रायपुर के पांच जोन आयुक्तों का तबादला.  

सीधी News


sidhi, Five laborers ,Surat building accident

सीधी। गुजरात के सूरत में शनिवार को 6 मंजिला इमारत हादसे में 7 लोगों की मौत हुई है। मृतकों में 5 मजदूर मध्य प्रदेश के सीधी जिले के हैं। पांचों मृतक मझौली थाना क्षेत्र के परासी और दियाडोल गांव के निवासी हैं, जो सूरत मजदूरी करने गए थे। हादसे में परासी गांव के दो सगे भाईयों की भी मौत हुई है।   मृतकाें के नाम हीरामणि केवट और लालजी केवट (दोनों सगे भाई) पुत्र बंभोली केवट, निवासी परासी, पोस्ट टिकरी, सीधी, शिवपूजन केवट पुत्र शौखीलाल केवट, प्रवेश केवट दोनों निवासी दियादोल, पोस्ट मझौली, सीधी और अभिलाष केवट पुत्र छोटेलाल केवट, कोटमा टोला मझौली, सीधी शामिल है। हादसे के बाद सीधी के सांसद डॉ. राजेश मिश्रा ने सूरत सांसद मुकेश दलाल से बात की है। सभी शवों को सीधी पहुंचाने के लिए सांसद मुकेश दलाल से कहा है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 July 2024

sidhi, arrogant alliance ,JP Nadda

सीधी। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि ये घमंडिया गठबंधन वाले बौखला गए हैं, इनको हार सामने दिख रही है। बौखलाहट में ये मोदी जी को पता नहीं क्या-क्या गालियां दे रहे हैं। कल मीसा भारती ने कहा कि 'हमारी सरकार आएगी तो हम मोदी को जेल भेज देंगे।' मोदी जी 12 साल मुख्यमंत्री रहे और 10 साल से प्रधानमंत्री हैं, उन पर एक भी दाग नहीं है और ये लोग उनके लिए इस तरह की भाषा का प्रयोग करते हैं।   भाजपा अध्यक्ष नड्डा शुक्रवार को मध्यप्रदेश के सीधी लोकसभा क्षेत्र में भाजपा उम्मीदवार डॉ. राजेश मिश्रा के समर्थन में बहरी सिंहावल में आयोजित जनसभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने इस दौरान कांग्रेस पर भी जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के जमाने में पनडुब्बी घोटाला, चीनी घोटाला, चावल घोटाला, कॉमनवेल्थ घोटाला, कोयला घोटाला हुआ, हेलीकॉप्टर वेस्टलैंड घोटाला, 2जी, 3जी का घोटाला हुआ। कांग्रेस ने न अंतरिक्ष छोड़ा, न धरती छोड़ी और न पाताल, तीनों लोक में घोटाला किया। इंडी घमंडिया गठबंधन में सभी भ्रष्टाचारी एक जगह इकट्ठा हो गए। इनके आधे नेता बेल पर हैं या जेल में हैं। उन्होंने पूछा कि क्या राहुल गांधी बेल पर नहीं है, क्या अरविंद केजरीवाल जेल में नहीं है?   नड्डा ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने देश के 10 करोड़ 74 लाख परिवारों, यानी 55 करोड़ लोगों को आयुष्मान भारत योजना के तहत हर वर्ष पांच लाख रुपये तक के मुफ्त इलाज की सुविधा दी है। जल जीवन मिशन के अंतर्गत पूरे देश में 11 करोड़ 30 लाख कनेक्शन दिए गए। जिनमें से 55 लाख कनेक्शन मध्य प्रदेश में और 1.60 लाख कनेक्शन यहां सीधी में दिए गए। मोदी जी ने पिछले 10 साल में गांव, गरीब, वंचित, पीड़ित, शोषित, दलित, युवा, महिला और किसान सबकी चिंता की है, सबको आगे बढ़ाया है।   उन्होंने कहा कि आज दुनिया में अमेरिका जैसे देश की भी आर्थिक स्थिति लड़खड़ा रही है। आज सारे यूरोप, जापान और ऑस्ट्रेलिया की भी आर्थिक स्थिति लड़खड़ा रही है लेकिन आईएमएफ को सबसे सुनहरा भविष्य भारत का दिख रहा है। आज भारत 11वें से पांचवें नंबर की अर्थव्यवस्था बन चुका है। अब मोदी के तीसरी बार प्रधानमंत्री बनने के बाद 2027 तक भारत विश्व की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा।   उन्होंने कहा कि पहले राजनीति लोगों को बांटकर होती थी। कांग्रेस ने लंबे समय तक भाई-भाई को बांटा। वोट बैंक की राजनीति की, फिर वोट लेने के बाद सरकार किसी जाति, समुदाय या वर्ग की बन जाती थी, वह सबकी सरकार नहीं होती थी, लेकिन मोदी जी ने पिछले 10 वर्षों में भारत की राजनीति की परिभाषा बदल डाली है। अब राजनीति होगी, तो केवल विकास और रिपोर्ट कार्ड की होगी। अब काम की बात पर चुनाव हो रहा है।   भाजपा अध्यक्ष नड्डा ने कहा कि आज दवाइयां और मोबाइल भारत में ही बन रहे हैं। पहले मोबाइल पर मेड इन चाइना लिखा होता, अब मेड इन इंडिया लिखा होता है। पहले गणेशजी भी चाइना से आते थे। अब आप जो गणेशजी लाकर दिवाली पर लाकर पूजा करते हैं, वो भारत में बन रहे हैं। आज भारत दुनिया को खिलौने बेच रहा है, जबकि पहले चीन के खिलौने आते थे। मध्य प्रदेश में 1 लाख 65 हजार किलोमीटर हाईवे बन गए हैं। गांव-गांव तक इटरनेट पहुंचाने के लिए फाइबर लाइनें बिछाई गईं। रेल से लेकर हवाई संपर्क भी बढ़ा है।   उन्होंने कहा कि 10 साल पहले पाकिस्तान जब पुंछ में गोली चलता था तो वो नगरोटा सेंटर पर रिपोर्ट करते थे। नगरोटा चंड़ी मंदिर को रिपोर्ट करता था और चंड़ी मंदिर दिल्ली में रिपोर्ट करता था और वहां से आदेश आता था अभी रुको, अभी रुको। जब से मोदी प्रधानमंत्री बने हैं, आपके यहां से गए हुए जवान को आदेश है, जहां गोली चले, वहीं भून डालो। हमारे जवानों ने सर्जिकल स्ट्राइक किया। पुलवामा की घटना पर प्रधानमंत्री ने खुले मंच से कहा था कि पाकिस्तान तुमने गलती कर दी है, खामियाजा तो भुगतना पड़ेगा। फिर 10 दिन के अंदर एयर स्ट्राइक करके हमारी सेना ने पाकिस्तान में घुसकर जितने हमारे खिलाफ चल रहे थे, सभी को ध्वस्त कर दिया। देश हर दृष्टि से आगे बढ़ रहा है। इसलिए ये नारा सही है अबकी बार 400 पार।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 April 2024

sidhi,  Prime Minister , Vishnu Dev Sai

सीधी/सिंगरौली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारत 2047 तक दुनिया की महाशक्ति और विश्व गुरु बने, इसके लिए मध्यप्रदेश की सभी 29 सीटें जीतना आवश्यक है। कार्यकर्ता प्राणपण से जुटकर आमजन का आशीर्वाद प्राप्त करें और कांग्रेस मुक्त भारत बनाने के मिशन में जुट जाए। प्रधानमंत्री मोदी के पुनः प्रधानमंत्री बनने से गरीब, किसान, युवा, दलित, शोषित एवं वंचितों का सम्मान होगा। जिसके कारण हम भारत को अगले 5 वर्षों में विश्व की तीसरी अर्थव्यवस्था बनाकर देश को सशक्त बनाएंगे। यह बात छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय ने शुक्रवार को सीधी में आयोजित कार्यकर्ता बैठक को संबोधित करते हुए कही। बैठक को प्रदेश महामंत्री सरदेन्दू तिवारी, जिलाध्यक्ष देव कुमार एवं विधायक रीति पाठक ने भी संबोधित किया। सीएम साय ने पूर्व में सिंगरौली पहुंचकर शक्ति नगर स्थित मां ज्वालामुखी मंदिर में माता के दर्शन कर पूजन अर्चन किया। तत्पश्चात अटल सामुदायिक भवन बिलौंजी में आयोजित प्रबुद्धजन सम्मेलन में शामिल हुए। कार्यकर्ता कांग्रेस मुक्त भारत बनाने के मिशन में जुट जाए   विष्णुदेव साय ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने अयोध्या में राम मंदिर, कश्मीर से धारा 370 समाप्त करने, तीन तलाक और अनेकों महत्वपूर्ण निर्णय लेकर आमजन को राहत दी है। कार्यकर्ता कांग्रेस मुक्त भारत बनाने के मिशन में जुट जाए। जनता जनार्दन के आशीर्वाद से छत्तीसगढ़ को हमने कांग्रेस मुक्त राज्य बनाने का फैसला किया है। मोदी के नेतृत्व में देश में हो रहा सांस्कृतिक पुनरुत्थान उन्होंने कहा कि आज देश में प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में सांस्कृतिक पुनरुत्थान की ओर निरंतर आगे बढ़ रहा है। चाहे वह भव्य और दिव्य अयोध्या में भगवान श्री रामलला विराजमान हो, भव्य काशी हो या फिर महाकाल कोरिडोर, हर जगह भारत को भारतीयता से जोड़ने का कार्य हो रहा है। ज्ञान पार्टी का विजन है। ज्ञान का अर्थ है गरीब, युवा, अन्नदाता और नारी का सम्मान और उनका उत्थान। उन्होंने कहा कि मैं इसी मध्यप्रदेश में पला, बढा हूं। पहले मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ का हिस्सा था, पूर्व प्रधानमंत्री श्रद्धेय अटलबिहारी वाजपेयी जी ने हमें स्वतंत्र राज्य की सौगात दी थी। भाजपा में परिवारवाद नहीं बल्कि राष्ट्रवाद है   साय ने कहा कि हम सब सौभाग्यशाली हैं, जिन्हें भारतीय जनता पार्टी जैसे दल में कार्य करने का अवसर मिला है। क्योंकि सभी विपक्षी दल एक परिवार की पार्टी हैं। जबकि भारतीय जनता पार्टी में राष्ट्रवाद सर्वोपरि है। बूथ स्तर के कार्यकर्ता के रूप में मैंने काम किया और आज मुख्यमंत्री हूं। यह सिर्फ भाजपा में ही संभव हो सकता है। भाजपा में लोकतंत्र है जहां कार्यकर्ता परिश्रम और निष्ठा के बल पर आगे बढ़ सकता है। उन्होंने कार्यकर्ताओं को कहा कि जनता के आशीर्वाद से मेरा बूथ सबसे मजबूत और बूथ जीता, चुनाव जीता के मंत्र को साकार कर प्रदेश की सभी 29 सीटें जीतना हमारा लक्ष्य है। 400 सीटों के लक्ष्य को प्राप्त करने में बुद्धिजीवियों की अहम भूमिका छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने सिंगरौली में प्रबुद्धजन सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि लोकसभा चुनावों का शंखनाद हो चुका है। देश की अन्य विपक्षी पार्टियों में परिवारवाद हावी है जबकि भाजपा कार्यकर्ता आधारित दल है। जहां एक ओर प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में विश्व भर में भारत का डंका बज रहा है, दूसरी ओर हमारी सरकार ने गरीबों के उत्थान में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी है। 500 साल के लंबे संघर्ष के बाद आज अयोध्या में भगवान श्री रामलला का भव्य मंदिर बना है यह सभी के लिए गौरव का क्षण है। कश्मीर में धारा 370 समाप्त करने से लेकर प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में देश में विकास की बयार चल रही है। लोकसभा चुनाव में भाजपा को 400 सीटों के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए हमें आप सभी बुद्धिजीवियों का साथ चाहिए ताकि देश को विश्व की तीसरी आर्थिक महाशक्ति बनाने का लक्ष्य पूरा हो सके। सम्मेलन को प्रदेश शासन की मंत्री राधा सिंह एवं प्रदेश महामंत्री सरदेन्दू तिवारी ने भी संबोधित किया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 March 2024

sidhi, School van, children injured

सीधी। मध्य प्रदेश के सीधी में बुधवार सुबह एक स्कूल वैन अनियंत्रित होकर खाई में पलट गई। इस हादसे में वैन सवार करीब आठ बच्चे घायल हुए है। घायलों में एक बच्चे की हालत गंभीर है, जिसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अन्य सभी बच्चों का ईलाज बहरी अस्पताल में चल रहा है। घटना के बाद चालक मौके से फरार हो गया। फिलहाल पुलिस मामला दर्ज कर जांच में जुटी है।   जानकारी अनुसार गोल्डन स्टार एकेडमी स्कूल की वैन बुधवार सुबह बच्चों को लेकर स्कूल जा रही थी। इस दौरान सुबह करीब नौ बजे ग्राम चोराही के पास वैन अनियंत्रित होकर तीन बार पलटी खाकर खाई में गिर गई। हादसे के बाद मौके पर चीख पुकार मच गई। मौके पर मौजूद लोगों ने पुलिस को सूचना दी। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल बच्चों को वैन से बाहर निकालकर अस्पताल पहुंचाया।     प्रत्यक्षदर्शी ज्ञानेंद्र पटेल ने बताया कि घटना के समय स्कूल वैन स्पीड में थी। अचानक अनियंत्रित होकर सड़क से नीचे पलट गई। खाई करीब 30 मीटर गहरी होगी। बहरी थाना प्रभारी रीता त्रिपाठी ने हादसे के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि कुल आठ बच्चे घायल हुए है। एक बच्चे को ज्यादा चोट आई है, उसे जिला अस्पताल सीधी रेफर कर दिया है। बाकी 7 बच्चों को सामान्य चोट आई है, जिनका बहरी अस्पताल में इलाज चल रहा है। पुलिस ने वैन को जब्त कर लिया है। हादसा संभवत कोहरे की वजह से हुआ है। घटना के बाद चालक मौके से फरार हो गया। मामले की जांच कर रहे हैं।      

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 January 2024

sidhi, Fire broke out ,accident averted

सीधी। मध्य प्रदेश के सीधी जिले में बुधवार सुबह एक बड़ा हादसा टल गया। यहां एसआईटी कॉलेज के छात्रों को लेकर जा रही एक बस में अचानक आग लग गई। घटना के समय बस में करीब छह छात्र सवार थे। समय रहते सभी को बस से नीचे सुरक्षित उतार लिया गया। सूचना के बाद मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड ने कडी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। जानकारी अनुसार घटना बुधवार सुबह करीब 8:00 बजे सीधी के पुलिस लाइन ग्राउंड के पास की है। एसआईटी कॉलेज की बस छात्रों को लेकर जा रही थी। इस दौरान अचानक बस से आग की लपटें निकलने लगी। किसी तरह समय रहते सभी छात्र सुरक्षित बस से नीचे उतर आए। इस दौरान स्थानीय लोगों और पुलिस कर्मियों ने बच्चों की मदद करते हुए बाहर निकाला। थोड़ी देर में ही आग भीषण हो गई और बस जल कर पूरी तरह से राख हो गई। घटना की जानकारी लगते ही मौके पर पहुंची दमकल टीम ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। आग लगने का कारण अज्ञात है। आशंका है कि बस के अंदर सार्ट सर्किट की वजह से आग लगी होगी। बस में सवार बच्चे और चालक पूरी तरह सुरक्षित हैं।   कोतवाली पुलिस थाना प्रभारी अभिषेक उपाध्याय ने बताया कि यह घटना सुबह करीब आठ बजे हुई, जब बस पुलिस लाइन मैदान के पास थी। उन्होंने कहा कि आग लगने का पता चलते ही चालक ने तुरंत बस रोक दी और वाहन के अंदर मौजूद पांच-सात बच्चों को सुरक्षित बाहर निकाला। हालांकि, प्रत्यक्षदर्शियों ने दावा किया कि घटना के समय लगभग 12 बच्चे बस के अंदर थे और वे सभी सुरक्षित बाहर आ गए। बस में आग लगने के बाद का वीडियो भी सामने आया है। वीडियो में देखा जा सकता है कि बस धू-धूकर जल रही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  27 December 2023

sidhi, Ladli Behna Yojana, Shivraj

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि राखी कच्चे धागों का नहीं स्नेह और आत्मीयता का बंधन है। मेरे जीवन का उद्देश्य महिलाओं का कल्याण और विकास करना है। बहनों का जीवन बदल गया तो मेरा मुख्यमंत्री बनना सार्थक हो जाएगा। लाड़ली बहना योजना से हर महीने बहनों को एक हजार रुपये दिये जा रहें हैं। योजना ने बहनों का मान-सम्मान बढ़ाया है। यह कोई कर्मकांड नहीं सामाजिक क्रांति है। योजना की राशि को बढ़ाकर 3 हजार रुपये किया जाएगा।       मुख्यमंत्री चौहान शुक्रवार को सीधी जिले में लाड़ली बहना सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने यहां मेडिकल कॉलेज तथा रामपुर नैकिन में 100 बिस्तर के अस्पताल का शिलान्यास किया। मुख्यमंत्री ने कुल 156 करोड़ रुपये के निर्माण कार्यों का शिलान्यास एवं लोकार्पण किया। इस मौके पर उन्होंने सेमरिया में नगर परिषद बनाने, हनुमानगढ़ उप तहसील को तहसील बनाने तथा गिजवार में सीएम राईज स्कूल खोलने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने पटपरा क्षेत्र के 35 गाँवों में सिंचाई सुविधा के लिए लिफ्ट एरिगेशन स्कीम लागू करने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि लोक सेवा केन्द्रों में अब 40 रुपये के स्थान पर 20 रुपये की फीस लगेगी। मिनी आँगनवाड़ी केन्द्र की कार्यकर्ता का मानदेय 6500 से बढ़ाकर 7250 रुपये तथा आँगनवाड़ी सहायिका का मानदेय 5750 रुपये से बढ़ाकर 6500 रुपये कर दिया गया है।       मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं सरकार नहीं परिवार चला रहा हूँ। लाड़ली बहना योजना से 10 सितम्बर को ग्वालियर से एक हजार रुपये दिये जा रहे हैं। अक्टूबर माह से हर महीने बहनों को 1250 रुपये मिलेंगे। इसे धीरे-धीरे बढ़ाकर 3 हजार रुपये किया जायेगा। गाँव-गाँव में लाड़ली बहना सेना बना दी गई है। बहनों की यह सेना शासन की योजनाओं को लागू कराने में सहयोग करेगी। स्व-सहायता समूह की बहनों की आमदनी हर महीने 10 हजार तक करने का प्रयास कर रहे हैं। मेरिट में आने वाले बच्चों को स्कूटी दी गई है और उन्हें साइकिल, छात्रवृत्ति और कम्प्यूटर के लिए 25 हजार रुपये दिये गये हैं। गरीब परिवार के सभी वर्ग के बच्चों को उच्च शिक्षा संस्थानों में प्रवेश लेने पर उनकी फीस सरकार भरेगी। सभी भूमिहीन परिवारों को आवासीय भूमि के पट्टे दिये जाएंगे। जिन लोगों को प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ नहीं मिला है उन गरीब परिवारों को मुख्यमंत्री आवास योजना से पक्के आवास दिये जाएंगे।     उन्होंने कहा कि जिन गरीब परिवारों के 31 अगस्त तक जो बिजली के अधिक राशि के बिल आये हैं उन्हें सरकार भरेगी। इसके लिए आठ हजार करोड़ रुपये दिये जा रहे हैं। जनता के सहयोग से सीधी जिले और प्रदेश का विकास किया जायेगा। मुख्यमंत्री ने विभिन्न योजनाओं के हितग्राहियों को हितलाभ का वितरण भी किया। लाड़ली बहना सेना ने विशाल राखी से मुख्यमंत्री का अभिनन्दन किया और कन्या-पूजन करके बेटियों का सम्मान किया और बहनों पर पुष्प-वर्षा की। कार्यक्रम स्थल पहुंचने पर मुख्यमंत्री का परम्परागत शैला नृत्य तथा गुदुम बाजे से स्वागत किया गया।       जनदर्शन मुख्यमंत्री चौहान के सीधी आगमन पर सीधी वासियों ने उत्साहवर्धक नारों, ढोल-ढमाकों और नृत्य के माध्यम से प्रसन्नता और उल्लास प्रकट कर स्वागत किया। जनदर्शन में भारत माता की जय तथा वंदे-मातरम की घोष के साथ मुख्यमंत्री पर निरंतर पुष्प-वर्षा होती रही और मुख्यमंत्री का विकास पर्व रथ अपार जन-समुदाय के साथ आगे बढ़ता रहा। मुख्यमंत्री ने कलेक्ट्रेट के पास अम्बेडकर चौराहा स्थित डॉ भीमराव अम्बेडकर की प्रतिमा पर श्रद्धासुमन अर्पित कर जनदर्शन का शुभारंभ किया। उन्होंने फूलमती माता मंदिर में पूजा-अर्चना कर प्रदेशवासियों के सुख समृद्धि की कामना की। जनदर्शन के दौरान लाड़ली लक्ष्मी बेटियों, लाड़ली बहना सेना, युवाओं, विभिन्न सामाजिक संगठनों, कर्मचारी संगठनों एवं समुदायों के लोगों ने मुख्यमंत्री का पुष्प-वर्षा तथा मालाओं से स्वागत किया।       मेडिकल कॉलेजों की संख्या बढ़कर 31 हो जाएगी मुख्यमंत्री चौहान ने सीधी में मेडिकल कॉलेज के लिए प्रस्तावित स्थल ग्राम नौढ़िया में भूमि-पूजन किया। उन्होंने कहा कि आज का दिन सीधी जिले के लिए बहुत बड़ी सौगात का दिन है। आज सीधी को मेडिकल कॉलेज की सौगात मिल रही है। इससे सीधी जिले के साथ-साथ आसपास के पूरे क्षेत्र को उपचार की उच्च-स्तरीय सुविधा मिलेगी। आज बहुत पुरानी मांग पूरी होने से सही मायनों में सीधी के साथ न्याय हुआ है। इसके साथ ही प्रदेश में मेडिकल कॉलेजों की संख्या बढ़कर 31 हो जाएगी। वर्ष 2003 तक प्रदेश में केवल पांच मेडिकल कॉलेज थे। सीधी जिले में इस कॉलेज की स्थापना से प्रदेश के छात्रों के लिए हर वर्ष अतिरिक्त 100 एमबीबीएस सीटें प्राप्त हो सकेंगी। मुख्यमंत्री ने 24 करोड़ 8 लाख 84 हजार रुपए लागत के 100 बिस्तरीय सिविल अस्पताल रामपुर नैकिन का शिलान्यास भी किया।       मुख्यमंत्री युवा अन्नदूत योजना के वाहनों को किया रवाना मुख्यमंत्री ने मुख्यमंत्री युवा अन्नदूत योजना के वाहनों को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। जिले के हितग्राहियों को शासकीय उचित मूल्य दुकानों से सही समय में खाद्यान्न की उपलब्धता सुनिश्चित करने के उद्देश्य तथा युवा हितग्राहियों को स्व-रोजगार प्रदाय करने के लिए मुख्यमंत्री युवा अन्नदूत योजना संचालित की जा रही है। योजना से जिले के 18 युवा लाभान्वित हुए हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 September 2023

sidhi, Tanker hit bus, 40 passengers injured

सीधी। जिले के चुरहट क्षेत्र में बीती रात एक टैंकर ने यात्री बस को टक्कर मार दी। इस हादसे में बस में सवार 40 से अधिक यात्री घायल गए। घायलों को अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार शुक्रवार रात करीब 12 बजे सतना से सिंगरौली जा रही गौतम बस सर्विस की यात्री बस को विपरीत दिशा से आ रहे टैंकर ने सामने से टक्कर मार दी। हादसा बढ़ाउरा शिव मंदिर के समीप हुआ। टैंकर की टक्कर से बस पलट गई और यात्रियों में चीख पुकार मच गई। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों और राहगीरों की मदद से घायल यात्रियों को बस से निकाला। इनमें से कुछ घायलों को चुरहट के सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है, वहीं गंभीर रूप से घायल यात्रियों को जिला अस्पताल भेजा गया है। फिलहाल सभी घायलों का उपचार जारी है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 August 2023

sidhi, Adivasi Dashmat ,ravesh Shukla

सीधी/भोपाल। मध्य प्रदेश के सीधी जिले में आदिवासी युवक के ऊपर लघुशंका (पेशाब) करने वाले आरोपित प्रवेश शुक्ला ने खुद के बचाव के लिए पीड़ित को बगैर जानकारी दिए धोखे से उससे शपथ पत्र में हस्ताक्षर करा लिए थे। यह खुलासा स्वयं पीड़ित आदिवासी युवक दशमत रावत ने किया है।       शुक्रवार को दशमत का एक वीडियो सोशल मीडिया पर प्रसारित हुआ है, जिसमें उसने बताया कि प्रवेश शुक्ला उसे शपथ पत्र बनाने के लिए ले गया था। कुछ लोग लिखा-पढ़ी कर रहे थे और वहां काफी शोरगुल हो रहा था। कुछ देर बाद आरोपित उसे अंदर ले गया और कम पढ़ा-लिखा होने के कारण धोखे से हस्ताक्षर करा लिए। उसे यह पता नहीं था कि वह किस कागज पर हस्ताक्षर कर रहा है। उसे प्रवेश के वीडियो प्रसारित होने के बाद यह बात पता चली।   दशमत ने यह भी कहा कि प्रवेश शुक्ला ने जो गलती की थी, सरकार ने उसको उसकी सजा दे दी है। इससे ज्यादा उसको सजा नहीं मिले। उसे गलती का अहसास हो गया होगा। मेरी सरकार से मांग है कि अब उसे छोड़ दिया जाए।       वहीं, मामले की जांच के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा गठित भाजपा की तीन सदस्यों वाली टीम ने भी शुक्रवार को दशमत से कुबरी गांव जाकर मुलाकात की। टीम में शामिल कोल जनजाति विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष रामलाल रौतेल ने उससे कई बिंदुओं पर बात की। दशमत ने बताया कि प्रवेश ने नशे की हालत में उसके ऊपर पेशाब किया था। रौतेल ने कहा कि यह घटना अमानवीय और निकृष्ट है। वहीं जांच टीम के साथ गए भाजपा जिला मंत्री विवेक कोल ने इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने कहा कि वह विधायक केदारनाथ शुक्ला के कारण इस्तीफा दे रहे हैं।       आरोपित प्रवेश शुक्ला के घर पर बुलडोजर चलाने की कार्रवाई से अखिल भारतीय ब्राह्मण समाज ने नाराजगी जताई है। समाज ने घर की मरम्मत के लिए उसके पिता को करीब एक लाख रुपये की राशि दी है।    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  8 July 2023

sidhi, Pravesh Shukla,  arrested

भोपाल। मध्य प्रदेश के सीधी जिले में आदिवासी युवक पर पेशाब करने के आरोपित प्रवेश शुक्ला को पुलिस ने मंगलवार देररात गिरफ्तार कर लिया। आदिवासी युवक के ऊपर पेशाब करते वीडियो वायरल होने के बाद से पुलिस उसकी तलाश कर रही थी। देररात करीब ढाई बजे उसके गांव के पास से ही उसे दबोचा गया। पुलिस उसे रात को थाना लेकर पहुंची।   आरोपित की गिरफ्तारी के लिए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अंजुलता पटले समेत भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया था। पुलिस आरोपित से पूरे घटना को लेकर बारीकी से पूछताछ कर रही है। युवक के खिलाफ सीधी के बहरी थाने में धारा 323, 123, 294, 506 आईपीसी और एनएसए के तहत मामला पंजीबद्ध किया गया है।     आरोपित सीधी से 20 किलोमीटर दूर कुबरी गांव का रहने वाला है। विवाद होने के बाद पुलिस बहरी थाने की एक टीम मंगलवार रात कुबरी गांव में उसके घर पहुंची थी, लेकिन प्रवेश वहां नहीं मिला। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर युवक को गिरफ्तार करने एवं कड़ी सजा देने के निर्देश दिए। इसके बाद बहरी थाना में एफआईआर दर्ज करने के बाद पुलिस चप्पे-चप्पे पर तैनात हो गई। आरोपित को पकड़ने के लिए देररात तक छापामार कार्रवाई की गई। मुखबिर तंत्र को सक्रिय किया गया जिसका नतीजा रहा कि देररात करीब ढाई बजे आरोपित पकड़ा जा सका।   पुलिस ने उसके पिता-माता और पत्नी को भी थाने बुलाकर पूछताछ की। परिवार ने घटना को लेकर किसी भी तरह की जानकारी होने से इनकार किया है। उल्लेखनीय है कि मंगलवार शाम को एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। वीडियो में आरोपित प्रवेश शुक्ला नशे की हालत में एक आदिवासी युवक पर पेशाब कर रहा था। वीडियो वायरल होने के बाद राजनीति शुरू हो गई। कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि आरोपित भाजपा से जुड़ा हुआ है और सीधी जिले के विधायक का पूर्व प्रतिनिधि है। जबकि घटना के बाद भाजपा अपना कार्यकर्ता या पदाधिकारी नहीं मान रही है।   सीधी विधायक बोले- मेरा लेना देना नहींः सीधी विधायक केदारनाथ शुक्ला ने प्रवेश शुक्ला से किसी भी तरह की पहचान से इंकार किया है। उन्होंने कहा कि वीडियो में जो व्यक्ति स्वयं को मेरा प्रतिनिधि बता रहा है, वह न भाजपा का कोई पदाधिकारी है और न ही मेरा प्रतिनिधि। मेरा उस व्यक्ति से कोई लेना-देना नहीं है। यह अमानवीय कृत्य है। ऐसे लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए। हालांकि इंटरनेट मीडिया पर कुछ वीडियो और पोस्टर है जिसमें आरोपित प्रवेश शुक्ला, सीधी विधायक केदारनाथ शुक्ला के बेटे गुरुदत्त शरण शुक्ला के जन्मदिवस पर शुभकामना के पोस्टर पर भी दिखाई पड़ रहा है। इस पोस्टर पर प्रवेश को सीधी विधायक प्रतिनिधि बताया गया है। एक अन्य फोटो भी वायरल हो रहा है, जिसमें प्रवेश एक कार्यक्रम के दौरान पूर्व मंत्री राजेंद्र शुक्ला, विधायक केदारनाथ शुक्ला, जनपद अध्यक्ष सीधी धर्मेंद्र सिंह परिहार के साथ दिखाई दे रहा है। बताया जा रहा है कि प्रवेश शुक्ला पूर्व विधायक प्रतिनिधि रह चुका है। वर्तमान में वह सक्रिय भाजपा कार्यकर्ता हैं। अरुण यादव ने ट्वीट किया नियुक्ति पत्रः एक तरफ जहां भाजपा आरोपित को अपनी पार्टी का कार्यकर्ता मानने से इंकार कर रही है। वहीं दूसरी ओर जवाब देते हुए कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव ने प्रवेश शुक्ला को भाजपा मंडल उपाध्यक्ष नियुक्त किए जाने का पत्र ट्वीट कर दिया। यादव ने लिखा, 'यह नियुक्ति पत्र उन लोगों के लिए है, जो बोल रहे हैं कि प्रवेश शुक्ला भारतीय जनता पार्टी का सदस्य नहीं है। वो भारतीय जनता युवा मोर्चा में मंडल उपाध्यक्ष है, साथ ही विधायक केदारनाथ शुक्ला जी ने उसे अपना प्रतिनिधि भी बनाया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  5 July 2023

sidhi, Road accident , seven people died

सीधी। मध्य प्रदेश के सीधी जिले में आज (गुरुवार) सुबह शहर कोतवाली क्षेत्र में एक ट्रक (बल्कर) और जीप के बीच की आमने-सामने की टक्कर में सात लोगों की मौत हो गई। सूचना मिलने पर तीन थानों की पुलिस मौके पर पहुंची है।   यह हादसा सुबह करीब 10ः15 बजे हुआ। जीप में सवार लोग सीधी की ओर आ रहे थे। सीधी से नगरी की तरफ जा रहे बल्कर से जीप की भिड़ंत हो गई। मौके पर पुलिस और प्रशासन के अधिकारी पहुंच गए हैं। राहत एवं बचाव कार्य शुरू कर दिया गया है। घायलों को जिला अस्पताल पहुंचाया जा रहा है। विस्तृत जानकारी की प्रतीक्षा है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  8 June 2023

sidhi, Patwari arrested, taking bribe

सीधी। रीवा लोकायुक्त पुलिस की टीम ने मंगलवार सुबह एक पटवारी को रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ा है। यह कारवाई मंगलवार सुबह करीब 11 बजे सीधी जिले के तहसील मड़वास में की गई है। पटवारी जमीन की इतलाबी के लिए रिश्वत की मांग कर रहा था। लोकायुक्त की टीम तहसील कार्यालय एवं पटवारी के निवास पर रिकार्ड की पड़़ताल कर रही है। प्राप्त जानकारी के अनुसार रमेश तिवारी निवासी जोडउरी ने लोकायुक्त कार्यालय में शिकायत की थी कि पटवारी राजेश कोल जमीन के इतलाबी के लिए 4000 रिश्वत की मांग कर रहा है। पैसा नहीं देने पर कार्य नहीं किया जा रहा है। लोकायुक्त टीम से चर्चा के बाद फरियादी ने पटवारी से रिश्वत की राशि की पहली किश्त के रूप में 2000 रुपये देने की बात की। तय योजना के अनुसार मंगलवार की सुबह 11 बजे फरियादी रमेश तिवारी 2000 रुपये लेकर तहसीलदार कार्यालय में पहुंचा। तब तक लोकायुक्त की टीम अपना जाल बिछा चुकी थी। जैसे ही रमेश तिवारी ने पटवारी को रिश्वत की राशि दी, लोकायुक्त टीम ने उसे रंगे हाथ पकड़ लिया। रंगे हाथ पकड़े गए आरोपित पटवारी को लेकर लोकायुक्त टीम टिकरी गेस्ट हाउस गई है, जहां अग्रिम कार्रवाई की जा रही है। लोकायुक्त की इस कार्रवाई से राजस्व अमले में हड़कंप की स्थिति है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 March 2023

bhopal ,Death toll rises ,Sidhi bus accident

भोपाल। मध्यप्रदेश के सीधी जिले में चुरहट-रीवा नेशनल हाईवे पर शुक्रवार रात हुए सड़क हादसे में मृतकों की संख्या बढ़कर 14 हो गई है। इनमें से आठ ने मौके पर ही दम तोड़ दिया था, जबकि बाकी की मौत अस्पताल में हुई। रीवा और सीधी अस्पताल में कुल 60 यात्रियों को भर्ती कराया गया है। इनमें 10 की हालत गंभीर है। अब तक 10 मृतकों की पहचान हो पाई है। दरअसल, शुक्रवार को सतना में शबरी माता जयंती पर कोल समाज के महाकुम्भ में शामिल होने के लिए प्रदेशभर से कोल समाज के लोग बसों से यहां पहुंचे थे। शाम को कार्यक्रम के समापन के बाद लोग बसों से वापस लौट रहे थे। सभी बसें सतना से रामपुर बघेलान और रीवा के रास्ते मोहनिया टनल होकर सीधी जा रही थीं। टनल से एक किलोमीटर दूर सीधी जिले के चुरहट थाना क्षेत्र में बरखड़ा गांव के पास तीन बसें कुछ देर के लिए रोकी गई थीं। यहां यात्रियों के लिए चाय-नाश्ते की व्यवस्था की गई थी। इसी बीच पीछे से आ रहे सीमेंट से भरे बेकाबू ट्रक ने तीनों खड़ी बसों को पीछे से टक्कर मार दी थी।   सीधी एएसपी अंजुला पटले ने शनिवार को बताया कि हादसे में अभी तक 14 लोगों की मौत हुई है। इनमें आठ शव चुरहट अस्पताल, दो सीधी अस्पताल और चार रीवा मेडिकल कॉलेज में रखे गए हैं। इनमें से 10 लोगों की शिनाख्त हो गई है, शेष मृतकों की पहचान के प्रयास किए जा रहे हैं। रीवा कलेक्टर मनोज पुष्प का कहना है कि तीन घायलों को एयर लिफ्ट किया जा रहा है। इनमें से दो को सतना से और एक को खजुराहो से हायर इलाज के लिए भेजा जा रहा है। एएसपी पटले के अनुसार, मृतकों की पहचान गिरीराज (36) शरण जायसवाल पुत्र उदयभान जायसवाल निवासी कतरवार थाना मझौली। हाल पता बालक छात्रावास अधीक्षक लुरभुटी तहसील कुसमी जिला सीधी, राजकुमारी कोल (55) पत्नी छोटेलाल कोल निवासी चोभरा थाना रामपुर नैकिन जिला सीधी, चूणामणि कोल (45) पुत्र छोटेलाल कोल निवासी चोभरा थाना रामपुर नैकिन जिला सीधी, मूलचंद रावत (20) पुत्र आनंद रावत निवासी बगहा थाना जमोड़ी जिला सीधी, लाल कुमार रावत (30) पुत्र रामलाल रावत निवासी वार्ड क्र. 12 बगैहा थाना जमोड़ी जिला सीधी, सरदार कोल (50) पुत्र मंझिला कोल निवासी ग्राम गांधी ग्राम थाना जमोड़ी जिला सीधी, मनऊ कोल (60) पुत्र छोट्टा कोल निवासी चोभरा थाना रामपुर नैकिन जिला सीधी, कुमरिया संवत (49) पत्नी मुन्ना रावत निवासी निवासी चोभरा थाना रामपुर नैकिन जिला सीधी, रामराज रावत (30) पुत्र वैशाखू रावत निवासी पडखुडी थाना जमोडी जिला सीधी और जमुना कोल (60) पुत्र मुडिया कोल निवासी ग्राम बाघड थाना रामपुर नैकिन जिला सीधी के रूप में हुई है। तीन मृतकों के नाम मुन्नी बैस, छोटे कोल और ममता कोल बताए गए हैं। इनकी पूरी डिटेल नहीं मिली है, जबकि एक की शिनाख्त नहीं हो पाई है। मृतकों के परिजनों को 10-10 लाख रुपये की आर्थिक सहायता गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव (एसीएस) डॉ. राजेश राजोरा ने हादसे में 14 लोगों के मरने और 60 यात्रियों के घायल होने की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि घायलों में तीन की हालत बेहद गंभीर है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों को 10-10 लाख रुपये की आर्थिक मदद देने का ऐलान किया। उन्होंने यह भी कहा कि मृतक व्यक्तियों के परिजनों को सरकारी नौकरी भी दी जाएगी। गंभीर रूप से घायलों को दो-दो लाख रुपये और सामान्य रूप से घायलों को एक-एक लाख रुपये मुआवजा दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि मृतक के परिजनों को कई कल्याणकारी योजनाओं का लाभ भी दिया जाएगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 February 2023

sidhi, Direct bus accident, Chief Minister ,spot

सीधी। मध्यप्रदेश के सीधी में शुक्रवार की रात करीब 10 बजे एक भीषण सड़क हादसे में 12 लोगों की मौत हो गई है, जबकि जबकि करीब 50 लोग घायल हो गए हैं। इनमें से गंभीर रूप घायल 35 लोगों को रीवा के संजय गांधी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हादसा मोहनिया टनल के पास बरखड़ा गांव के नजदीक हुआ है। जानकारी मिलने के बाद देर रात मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मौके पर पहुंचे हैं। उन्होंने घटनास्थल पर पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया।   बताया जा रहा है कि सतना में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के मुख्य आतिथ्य में हुए कोल जनजाति महाकुंभ में शामिल होने आए लोगों को वापस लेकर जा रही तीन बसों को एक एक तेज रफ्तार ट्रक ने टक्कर मार दी। दो बसें खाई में गिर गई, जबकि एक बस सड़क पर पलट कर पूरी तरह चकनाचूर हो गई। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान रात करीब 12 बजे घटनास्थल पहुंचे। उन्होंने हालात का जायजा लिया और अधिकारियों से घटना की जानकारी ली। वह रीवा के संजय गांधी अस्पताल भी पहुंचेंगे, जहां घायलों का हाल जानेंगे। इससे पहले सीधी कलेक्टर और एसपी भी मौके पर पहुंचे, वे अस्पताल भी गए। सीधी सांसद रीति पाठक भी मौके पर पहुंची।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 February 2023

sidhi, Uncontrollable truck collided, 10 died

सीधी। मध्य प्रदेश के सीधी जिले में चुरहट थाना क्षेत्र अंतर्गत मोहनिया टनल के समीप ग्राम बरखड़ा (बड़ोखर) के पास शुक्रवार रात करीब 10 बजे भीषण सड़क हादसा हो गया। यहां एक तेज रफ्तार ट्रक ने तीन बसों को टक्कर मार दी। हादसा इतना भीषण था कि ट्रक की टक्कर से एक बस सड़क किनारे पलटकर गई, जबकि दो बसें अनियंत्रित होकर खाई में गिर गईं। इस हादसे में 10 लोगों की जान चली गई, जबकि 50 से अधिक लोगों के घायल होने की सूचना है। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने हादसे पर दुख व्यक्त किया है। सूचना मिलते ही सीधी कलेक्टर और एसपी मौके पर पहुंच गए हैं। रीवा कमिश्नर और आईजी घटनास्थल पर रवाना हो चुके हैं। घायलों को रीवा मेडिकल कॉलेज अस्पताल ले जाया गया है। बताया जा रहा है कि ये बस सतना में कोल जनजाति महाकुंभ में गई हुई थी। इस कार्यक्रम में देश के गृह मंत्री अमित शाह और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह शामिल हुए थे। कार्यक्रम से लौटते समय बस हादसे का शिकार हो गई। बताया जा रहा है कि सतना में आयोजित कोल जनजाति महाकुंभ के कार्यक्रम में भीड़ जुटाने के लिए विंध्य क्षेत्र के सभी जिलों को बसों में भरकर लोगों को लाया गया था। शाम साढ़े पांच बजे कार्यक्रम खत्म हुआ, जिसके बाद सभी बसें सतना से रामपुर बघेलान और रीवा के रास्ते मोहनिया टनल होकर सीधी जा रही थीं। टनल से एक किलोमीटर दूर सीधी जिले के चुरहट थाना क्षेत्र में बरखड़ा गांव के पास तीन बसें कुछ देर के लिए रोकी गई थीं। दरअसल मोहनिया टनल के पास बसों के रुकने का प्वाइंट तय किया गया था। दो बसें टनल के पास रुकीं। वहां कार्यक्रम में आने वालों के लिए चाय-नाश्ते की व्यवस्था की गई थी। कोल समाज के लोगों को बसों में जैसे ही नाश्ते के पैकेट दिए जा रहे थे, इसी बीच पीछे से आ रहे सीमेंट लदे ट्रक ने तीनों बसों को टक्कर मारी। तीनों बसों से 50 से 60 सवार थे। टक्कर लगते ही दो बसें 10 फीट गहरी खाई में गिर गईं। वहीं, एक बस हाईवे पर ही पलट गई। हादसे के बाद चीख-पुकार मच गई। बस के यात्रियों ने पुलिस को सूचना दी। अपने स्तर पर भी घायलों को बाहर निकालना शुरू किया। चुरहट थाना प्रभारी सतीश मिश्रा ने बताया कि हादसा शुक्रवार को रात 10 बजे के करीब हुआ है। एक तेज रफ्तार ट्रक ने बसों को टक्कर मारी है। इधर, हादसे के बाद क्षेत्रीय सांसद रीति पाठक घटनास्थल पर पहुंची और मामले की जानकारी ली। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने जताया दुख केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सीधी में हुए हादसे पर दुख जताया है। उन्होंने ट्वीट में लिखा कि सीधी में हुआ सड़क हादसा अत्यंत दुःखद है। इस हादसे में जान गंवाने वाले लोगों के परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं। ईश्वर उन्हें यह दुःख सहने की शक्ति दें। प्रशासन घायलों को उपचार उपलब्ध करा रहा है। घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट किया कि सीधी में बस पलटने से हुई दुर्घटना का अत्यंत दुखद समाचार प्राप्त हुआ। ईश्वर से दिवंगत आत्माओं को अपने श्री चरणों में स्थान और परिजनों को यह गहन दु:ख सहन करने की शक्ति देने तथा घायलों के शीघ्र पूर्णत: स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं। उन्होंने घायलों के समुचित इलाज की व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि वे रीवा से सीधी के बीच हुई इस बस दुर्घटना पर वो लगातार दोनों जिलों के प्रशासन से संपर्क में हैं। उन्होंने अधिकारियों को रेस्क्यू ऑपरेशन के निर्देश दिए हैं। गंभीर घायलों को एंबुलेंस से जिला अस्पताल भेजा जा रहा है, वहीं मामूली घायलों का सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चुरहट में भी इलाज किया जा रहा है। कलेक्टर साकेत मालवीय और पुलिस अधीक्षक मुकेश श्रीवास्तव भी मौके पर पहुंच गए हैं। मृतकों की पहचान अभी नहीं हो पाई है। मुख्यमंत्री चौहान लगातार सीधी और रीवा जिला प्रशासन से संपर्क में हैं। सीधी में हुई सड़क दुर्घटना पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने भी दुख जताया है। उन्होंने ट्वीट किया कि ईश्वर दिवंगत आत्माओं को अपने श्री चरणों में स्थान प्रदान करें। घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना है। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने भी दुख जताते हुए शिवराज सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने मृतकों के परिजनों को 50-50 लाख रुपये का मुआवजा देने की मांग की है। साथ ही घायलों को 5-5 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने की मांग की। दिग्विजय सिंह ने ट्वीट किया कि मुख्यमंत्री दुर्घटना की जिम्मेदारी लें और दोषी अधिकारियों को बर्खास्त करें। वहीं, पूर्व नेता प्रतिपक्ष एवं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अजय सिंह ने ट्वीट किया है कि हृदय विदारक हादसा है। चुरहट में मोहनिया टनल के पास भीषण बस दुर्घटना घटित हुई है। बड़ी संख्या में लोगों के हताहत होने और घायल होने का पीड़ादायक समाचार है। परमात्मा दिवंगत लोगों की आत्मा को शांति दे। शासन प्रशासन से अपील है कि घायलों के लिये त्वरित उपचार और सहायता पहुंचाई जाए।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 February 2023

sidhi, Police lathicharge,Chief Minister

सीधी। जिले के चुरहट विधानसभा अंतर्गत लहिया अमलकपुर गांव में शुक्रवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की सभा में कार्यक्रम शुरू होने पहले पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया। इससे सभा स्थल पर भगदड़ मच गई। बताया जा रहा है कि क्षेत्र में एक व्यक्ति की नहर में डूबने से हुई मौत के बाद परिजनों ने हत्या की आशंका जताते हुए शव को सभा स्थल पर ले जाने का प्रयास किया। इसी के चलते यहां पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। इसके बाद सभा स्थल पर भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है, जिससे कोई बड़ी घटना से बचा जा सके। अफरा तफरी के चलते करीब एक घंटे देरी से कार्यक्रम की शुरुआत हो सकी।     दरअसल, चुरहट विधानसभा क्षेत्र के लहिया अमलकपुर गांव में मुख्यमंत्री की सभा आयोजित की गई थी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के यहां पहुंचने से पहले उकरहा गांव निवासी कमलेश पटेल की नहर में डूबने से संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई, जिसे उनके परिजन हत्या की आशंका कर शव को मुख्यमंत्री की सभा में ले जाने की कोशिश कर रहे थे। पुलिस बार-बार उन्हें समझाने की कोशिश कर रही थी, लेकिन वह जबरन कार्यक्रम स्थल पर ले जाने लगे। देखते ही देखते आसपास के लोग भी जमा हो गए और जबरदस्ती करने लगे ऐसे में पुलिस प्रशासन को लाठीचार्ज करना पड़ा। हालांकि, बाद में पुलिस ने मामला संभाला और मृतक के परिजनों को उचित कार्रवाई का आश्वासन देकर वहां से रवाना किया। इसके बाद मुख्यमंत्री सभा स्थल पर पहुंचे और लोगों को संबोधित किया।     इधर, प्रदेश के भाजपा महामंत्री चुरहट विधायक शरदेंदु तिवारी ने मुख्यमंत्री से विधानसभा क्षेत्र में ऐसे गरीबों के लिए मांग की है, जिनके पास पुराने घर हैं लेकिन अभी आबादी दर्ज नहीं है, जिसके कारण उन्हें आवास नहीं मिला। यदि उन्हें राजस्व के रिकार्ड पर आबादी दर्ज कर दी जाए तो वह शासन की योजनाओं का लाभ पा सकेंगे। उन्होंने विभिन्न कार्यों की मांग कर मुख्यमंत्री को पत्र भी सौंपा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 February 2023

bhopal,Chief Minister Chouhan, took cognizance

भोपाल। मध्यप्रदेश के सीधी जिले में संक्रांति के मेले में खराब खाने की वजह से 100 से ज्यादा लोग बीमार पड़ गए। जिनमें बच्चों और महिलाओं की संख्या ज्यादा है। सभी ने मेले में चाट-फुल्की खाई थी। इसकी जानकारी मिलने के बाद मेले में अफरा-तफरी का माहौल हो गया। बीमारों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रामपुर नैकिन में भर्ती कराया गया है। वहीं कुछ लोगों को रीवा रैफर किया गया है। इधर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने फूड प्वाइजनिंग मामले का संज्ञान लिया है।   मुख्यमंत्री शिवराज ने देर रात ट्वीट कर कहा ‘सीधी के भितरी सहित कई ग्रामों में फूड पॉइजनिंग से कई लोगों के प्रभावित होने का दुखद समाचार प्राप्त हुआ। प्रभावितों का इलाज सीएचसी रामपुर नैकिन, सेमरिया और चुरहट में जारी है। तीन लोगों को रीवा भेजा गया है। सभी खतरे से बाहर हैं। मैं सतत सीधी कलेक्टर और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के संपर्क में हूं। इलाज की समुचित व्यवस्था की जा चुकी है। मैं सभी के शीघ्र पूर्णत: स्वस्थ होने की कामना करता हूं।   उल्लेखनीय है कि मामला रामपुर नैकिन थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम खेड़ा में सोन नदी के पास का है। यहां संक्रांति का मेला लगा हुआ है, जिसमें शनिवार को बड़ी संख्या में लोग पहुंचे थे। लोगों ने मेले में लगी दुकानों से चाट-फुल्की खाई। जिसके बाद उनकी तबीयत बिगडऩे लगी। परिजनों उन्हें रामपुर नैकिन ले गए। बीमारों में ग्राम पंचायत क्षेत्र कुआं, भीतरी, ममदर व झलवार के लोग ज्यादा है। एक साथ इतने बीमार होने से अस्पताल में जगह कम पड़ गई। मरीजों को फर्श पर लिटाकर उपचार दिया गया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  15 January 2023

व्यवस्था सुधार का मेरा मिशन जन-सहयोग के बिना सफल नहीं होगा

  गरीबों की जिंदगी बदलने का अभियान है मुख्यमंत्री जन-सेवा अभियान मख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मुख्यमंत्री जन-सेवा अभियान का यह कार्यक्रम गरीबों की जिंदगी बदलने का अभियान है। अभियान में केन्द्र और राज्य सरकार की 38 अलग-अलग योजनाओं में पात्र व्यक्तियों को चिन्हित करने के लिये जन-सेवा शिविर लगा कर 83 लाख नये हितग्राही जोड़े गये हैं। इन सभी को योजनाओं का लाभ मिलना अब शुरू हो जायेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि लोकतंत्र जनता का, जनता के लिए और जनता का राज है। मेरा प्रयास है कि जनता को अपने काम के लिए दफ्तरों के चक्कर न लगाना पड़े। उनकी जायज आवश्यकताओं की पूर्ति और उनकी समस्याओं का निराकरण के लिये ही प्रदेश में मुख्यमंत्री जन-सेवा अभियान चलाया गया। मुख्यमंत्री  चौहान आज सीधी जिले में मुख्यमंत्री जन-सेवा अभियान में हितग्राहियों को स्वीकृति-पत्र वितरण कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने प्रारंभ मे कन्या-पूजन और दीप जला कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। उन्होंने विभिन्न योजनाओं के नवीन हितग्राहियों को स्वीकृति-पत्र वितरित किये। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने 43 करोड़ 88 लाख के विकास कार्यों का भूमि-पूजन और 64 करोड़ 49 लाख के कार्यों का लोकार्पण भी किया। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि आज मुझे यह बताते हुए खुशी है कि रीवा संभाग में जन-सेवा अभियान में प्राप्त 7 लाख 59 हजार 778 आवेदन में से 7 लाख 2 हज़ार 845 आवेदन स्वीकृत कर अलग-अलग योजनाओं में हितग्राहियों के नाम जोड़ दिए गए हैं। सीधी जिले में भी 1 लाख 37 हज़ार भाई-बहनों के नाम योजनाओं में जोड़े गये। इन सभी हितग्राहियों को आज पूरे रीवा संभाग में स्वीकृति-पत्र वितरित किये जा रहे है। उन्होंने कहा कि स्थानीय जन-प्रतिनिधि और कलेक्टर-कमिश्नर यह सुनिश्चित करें कि स्वीकृति-पत्र के लिए किसी हितग्राही को परेशान न होना पड़े।   मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि मेरे लिये तो मेरी जनता ही भगवान है। मैं हमेशा कहता हूँ, भगवान के दर्शन अगर करना है तो दीन-दुखियों की सेवा कर गरीबों के आँखों के आँसू पोछ लो। इनकी आँखों में साक्षात नारायण दिखाई देंगे। मैं पूरे प्रशासन से कहता हूँ कि आपकी ड्यूटी है कि जनता की बेहतर सेवा की जाए। मुख्यमंत्री सहित विधायक, सांसद, कलेक्टर-एसपी और नीचे तक के अधिकारी-कर्मचारी हम सब लोकतंत्र में जनता के सेवक हैं।   मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि मुझे लोग आजकल कह रहे हैं कि आपका मूड कुछ बदला हुआ है। जब काम अच्छा होता है तो मैं प्रशंसा करता हूँ और कहीं गड़बड़ होती है या कोई पैसा खा रहा है, कोई रिश्वत ले रहा है, कोई भ्रष्टाचार कर रहा है तो ऐसे लोगों के खिलाफ मैं सख्त कार्यवाही भी करता हूँ। अगर कुर्सी पर बैठे हो तो जनता के लिए ढंग से काम करों। मैं व्यवस्थाओं को सुधारने की कोशिश कर रहा हूँ। इस मिशन में जनता के सहयोग के बिना सफलता नहीं मिल सकती।   मुख्यमंत्री  चौहान ने बताया कि प्रदेश में जनजातीय भाइयों के लिए 89 विकासखण्डों में पेसा एक्ट लागू कर ग्राम सभाओं को अनेक अधिकार दिये गये हैं। इन अधिकारों का उपयोग कर हमारे जनजातीय भाई-बहन आत्म-निर्भरता की ओर बढ़ेंगे।   मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने अपने नव निर्वाचित सरपंचों के अधिकार बढ़ाये हैं। इन अधिकारों का उपयोग कर ग्राम स्वराज की नई परिकल्पना को मूर्त रूप दिया जाये। सरकार की जनहितकारी योजनाएँ निचले स्तर तक पहुँचे और सभी पात्र लोगों को उसका लाभ मिले, यह हमारी प्राथमिकता है।   भारतीय जनता पार्टी की सरकार में जो विकास और गरीबों के हित में कार्य हुए है, ऐसे काम पूर्व की सरकारों में कभी नहीं हुए। चारों तरफ सड़कों का जाल, पानी और बिजली की व्यवस्था के साथ हमारे किसान भाइयों एवं गरीबों के लिये अनेक योजनाएँ चला कर लाभ दिया जा रहा है।   मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि वर्ष 2018 में तत्कालीन सरकार ने किसान भाइयों का कर्ज 10 दिन में माफ करने की घोषणा की थी। सवा साल हो गए कर्ज माफ तो किया नहीं उस कर्जे पर ब्याज जरूर चढ़ गया। इस ब्याज को उतारने के लिये मैं इसी बजट में राशि का प्रावधान कर रहा हूँ। ब्याज के कारण जो डिफाल्टर हो गए, उनका पैसा अब किसान नहीं हम भरेंगे, हमारी सरकार भरेगी, ताकि किसानों से डिफाल्टर का टैग हट जाए।   मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि किसान भाई जरा गंभीरता से सोच कर देखे कि बिना सिंचाई के उनका कल्याण हो सकता है। हमने एक नहीं अनेक सिंचाई योजनाएँ पूरी की और जीरो प्रतिशत ब्याज पर ऋण उपलब्ध कराने जैसे किसान हितैषी कदम उठाए हैं। बिजली की व्यवस्था बेहतर करने की कोशिशें लगातार जारी है। किसानों को पर्याप्त बिजली दी जा रही है। खराब ट्रांसफार्मर भी शीघ्रता से बदले जा रहे हैं।   मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि गरीबों के लिए रोटी, कपड़ा, मकान, पढ़ाई-दवाई और रोजगार का इंतजाम भी किया जा रहा है। फ्री राशन की योजना आज तक किसी ने नहीं दी।  प्रधानमंत्री 5 किलो राशन भेजते हैं, मुख्यमंत्री अन्नपूर्णा योजना में भी 5 किलो राशन दिया जाता है। गरीब के राशन में यदि कोई गड़बड़ी करेगा उसे किसी कीमत पर छोड़ा नहीं जायेगा। तो उसे सीधे हथकड़ी लगाकर जेल भेजा जायेगा। ।   मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना में प्रदेश के गरीबों को आवास बना कर दिये जा रहे हैं। आवास योजना की राशि सीधे हितग्राही के खाते में अंतरित की जा रही है, इसमें यदि कोई गड़बड़ी करता है या पैसे की मांग करता है तो उसके खिलाफ भी सख्त कार्यवाही होगी। जिन परिवारों के पास आवास के लिये भूमि नहीं है, उन्हें मुख्यमंत्री भू-आवासीय अधिकार योजना में जमीन का पट्टा दिया जायेगा। इसकी शुरूआत अटल जी के जन्मदिन 25 दिसंबर से की जायेगी। कई सालों से बनी पुरानी कॉलोनियों को वैध कर विकास के सारे काम करवाये जायेंगे।   मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार सबको साथ लेकर आगे बढ़ना चाहती है। शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार के क्षेत्र में व्यापक स्तर पर काम किये जा रहे हैं। शिक्षा में आमूलचूल परिवर्तन कर सी.एम.राइज स्कूल खोले जा रहे है। सीधी जिले में ही सी.एम.राइज स्कूल स्वीकृत हो चुके हैं, जिनके भवन निर्माण की निविदा जारी हो चुकी है। मेधावी बच्चों को लेपटॉप के साथ उनकी उच्च शिक्षा की फीस भी राज्य सरकार भर रही है। शिक्षा के क्षेत्र में क्रांति करते हुए मध्यप्रदेश की धरती पर मेडिकल और इंजीनियरिंग की पढ़ाई अंग्रेजी में नहीं अब हिंदी भाषा में की जाएगी।   मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि रोजगार के क्षेत्र में भी हम क्रांति करने का प्रयास कर रहे हैं। सरकारी नौकरी में 1 लाख 13 हज़ार रिक्तियाँ निकल चुकी है और स्व-रोजगार के माध्यम से भी रोजगार उपलब्ध करवाये जा रहे हैं। स्व-सहायता समूहों को आर्थिक सहायता उपलब्ध करवाते हुए महिलाओं को भी आत्म-निर्भर बनाया जा रहा है।   मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि जल जीवन मिशन शुरू किया है। मिशन में पाइपलाइन बिछा कर हर घर नल से जल दिया जा रहा है। अब मेरी बहनों को पानी के लिये हैंडपंप पर जाना नहीं पड़ेगा। उन्होंने कहा कि मिशन में हो रहे कार्यों पर अधिकारियों के साथ जन-प्रतिनिधि भी निगरानी रखें।   मुख्यमंत्री  चौहान ने खुशी जाहिर की कि सीधी जिले में नवाचार करते हुए बिल्हा डैम का पुनर्निर्माण शुरू किया गया है। इससे लगभग 50 हज़ार हेक्टेयर में सिंचाई की व्यवस्था हो सकेगी। उन्होंने जिले में महुआ उत्पादन में भी नवाचार करने पर बधाई दी। जिले के मझौली विकासखंड की खजुरिया ग्राम पंचायत में 100 एकड़ जमीन पर गो-अभयारण्य बनाया जा रहा है, जो गौ माता को आसरा और सहारा देगा।   मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि सीधी को अत्याधुनिक विकसित शहर बनाया जाएगा। मिनी स्मार्ट सिटी के काम का अगला फेज हम फिर लेकर आएंगे, जिससे सीधी लगातार आगे बढ़ता रहे। जिले के विकास में हम कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। इंजीनियर कॉलेज भी यहाँ प्रारंभ करेंगे जिससे सीधी के बच्चों को ढंग से शिक्षा का लाभ मिल सके।   मुख्यमंत्री ने अपील की कि फालतू बिजली न जलाएं। इससे सरकार को बड़ी बचत होगी। सब मिल कर संकल्प ले कि सीधी जिले को आगे बढ़ाने में सरकार का साथ देंगे। अपने शहर-गाँव को बेहतर बनाएंगे और भ्रष्टाचार को जड़ से उखाड़ेंगे।   मुख्यमंत्री चौहान ने सीधी जिले के तीन अधिकारी तहसीलदार मझौली वी.के.पटेल, परियोजना समन्वयक रमसा सुजीत मिश्र और जनपद मझौली मान सिंह सैयाम को अच्छे काम के लिये सम्मानित किया। शिकायत के आधार पर पूर्व प्रभारी अधिकारी मनरेगा (वर्तमान में कटनी पदस्थ), जिला शिक्षा अधिकार और प्रभारी तहसीलदार रामपुर नैकिन को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया।   जनजातीय कार्य, अनुसूचित जाति कल्याण मंत्री  मीना सिंह और सांसद  रीति पाठक ने भी संबोधित किया। विधायक  केदारनाथ शुक्ला ने स्वागत भाषण दिया। कार्यक्रम में विधायक, जन-प्रतिनिधि और बड़ी संख्या में नागरिक उपस्थित थे। अटल जी के जन्म दिन से शुरू होगा सीएम भू-अधिकार योजना में प्लाट वितरण का कार्य अच्छा काम करने वाले तीन अधिकारियों को किया सम्मानित शिकायत के आधार पर तीन अधिकारियों को किया तत्काल प्रभाव से निलंबित 110 करोड़ से अधिक के विकास कार्यों का भूमि-पूजन और लोकार्पण किया नये हितग्राहियों को दिये योजनाओं के स्वीकृति-पत्र मुख्यमंत्री सीधी जिले के सीएम जन-सेवा अभियान के स्वीकृति-पत्र वितरण कार्यक्रम में हुए शामिल

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 December 2022

मध्यप्रदेश में भारी बारिश से बिगड़े हालात

  भोपाल में पिछले 24 घंटे में 7.5 इंच हुई   मध्य प्रदेश में 52  घंटे से लगातार भारी बारिश के चलते जान जीवन अस्त व्यस्त हो गया है।सबसे ज्यादा बारिश राजधानी भोपाल में पिछले 24 घंटे में 7.5 इंच हुई है।भोपाल के बावड़ियाकलां इलाके की पॉश कॉलोनी इंडस एम्पायर में पानी भर गया। कई घरों की पहली मंजिल डूबने से यहां के 40 मकानों में 18 परिवार फंस गए। जिसके बाद राफ्ट की मदद से लोगों को रेस्क्यू किया गया। शहर में रविवार-सोमवार के दरमियान 7.5 इंच से ज्यादा बारिश हुई है।  कई जिलों में बाढ़ के हालात बने हुए  हैं।  अगले 24 घंटे में तेज बारिश का नया अलर्ट जारी किया गया है। नर्मदापुरम जिले में नेशनल हाईवे बंद हो गया है। नरसिंहपुर से जबलपुर पहुंचने का रास्ता बंद हो गया है। खंडवा में नर्मदा नदी उफान पर है। जबलपुर में ग्वारीघाट के पास नर्मदा नदी से करीब 70 फीट की ऊंचाई पर स्थित दुकानें डूब चुकी हैं। यहां बरगी डैम के 30 में से 17 गेट खुलने से नर्मदा रौद्र रूप में आ गई है। जबलपुर में ग्वारीघाट के पास नर्मदा नदी से करीब 70 फीट की ऊंचाई पर स्थित दुकानें डूब चुकी हैं। यहां बरगी डैम के 30 में से 17 गेट खुलने से नर्मदा रौद्र रूप में आ गई है। पचमढ़ी के जटाशंकर मंदिर में पानी भर गया है। 24 घंटे में पचमढ़ी में 148 मिलीमीटर बारिश हुई है। इससे निचली बस्तियों में पानी भर गया है। सांडिया में नर्मदा नदी 12 मीटर के खतरे के निशान पर बह रही है।  सांडिया में नर्मदा नदी 12 मीटर के खतरे के निशान पर बह रही है।नरसिंहपुर जिले में लगातार 36 घंटों से हो रही बारिश से नर्मदा नदी उफान पर है। झांसी घाट का पुल डूबने से जबलपुर-नरसिंहपुर मार्ग बंद हो गया है। ककरा घाट का पुल भी डूब गया है। तेंदूखेड़ा-गाडरवाड़ा मार्ग भी बंद है। पुलिस बल और रेस्क्यू टीम जरूरी स्थानों पर तैनात है।रायसेन जिले में चारों तरफ पानी ही पानी नजर आ रहा है। निचली बस्तियों में बाढ़ के हालात हैं। जलजमाव से सभी रास्ते बंद हैं। कलेक्टर ऑफिस और उनके बंगले में भी पानी भर गया है। प्रशासन ने नागरिकों से घरों में रहने की अपील की है। प्रभावित लोगों को शहर के वन परिसर और सिंधी धर्मशाला में पहुंचाया जा रहा है।सीधी में शनिवार-रविवार की रात बारिश होती रही। रविवार शाम को डिहुली पंचायत के परसोना निवासी दो युवक सुरेश केवट (24) और राजेश केवट (30) सोन नदी में फंस गए। करीब 14 घंटे बाद SDRF की टीम ने दोनों को सुरक्षित निकाला।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 August 2022

 FIR

पूर्व मंत्री कमलेश्वर पटेल के खिलाफ एफआईआर   सीधी में पूर्व मंत्री और विधायक कमलेश्वर पटेल और कांग्रेस नेताओं के खिलाफ  एफआईआर दर्ज की गई है | . इसके खिलाफ कमलेश्वर पटेल ने भी भाजपा नेताओं के खिलाड़ एफआईआर दर्ज किये जाने के लिए पुलिस को आवेदाब दिया है  |  सीधी कलेक्ट्रेट के सामने कुछ दिनों पहले पूर्व मंत्री  व वर्तमान विधायक कमलेश्वर पटेल ने जिला कांग्रेस कमेटी के कार्यकर्ताओं के साथ बिजली  ,स्वास्थ एवं करोना से मरने वालों  का आंकड़ा छुपाने  का आरोप लगते हुए  सरकार के खिलाफ धरना दिया था  | उसी दिन सीधी कोतवाली प्रभारी हितेंद्र शर्मा की शिकायत पर   पूर्व  मंत्री कमलेश्वर पटेल सहित अन्य कांग्रेस कार्यकर्ताओ आपदा प्रबंधन की धारा  188 एवम अन्य धाराओं  एफ आई आर दर्ज  की गई |  इस एफ आइ आर के विरोध में   विधायक कमलेश्वर पटेल ने   कांग्रेस जिलाध्यक्ष के साथ थाना कोतवाली में सत्ता पक्ष के लोगों के विरुद्ध  मामला दर्ज  करने का आवेदन दिया  |  और  कहा कि सत्ता पक्ष के  लोगों ने  भी लॉक डाउन के दौरान सभा व भीड़ एकत्र कर  कार्यक्रम किये है  |  ऐसे में उनके खिलाफ मामला दर्ज किया जाये  | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 June 2021

 Just flip over

45 यात्रियों के शव बाहर निकाले गए   सीधी के  रामपुर नैकिन में यात्रियों से भरी एक बस 30 फीट गहरी नहर में गिर गई | जिसमे कई यात्रियों के मारे जाने की खबर है | बस को क्रेन से बाहर निकाला गया  | इसमें से 45  शव निकालकर संजय गांधी अस्पताल भेजे गए हैं | इस हादसे के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने अपने सारे कार्यक्रम निरस्त कर | .राहत और बचाव कार्यों की निगरानी की | इस हादसे में कुल सात लोगों को बचाया जा  सका है|  जानकारी के मुताबिक बस सीधी से सतना जा रही थी |  साइड लेने के दौरान वह सीधे सड़क किनारे नहर में जा गिरी | घटना के बाद  ग्रामीण ने  फंसे लोगों को बाहर निकालने में मदद की | बताया जा रहा है कि बस छूहियाघाटी में दो दिन से लगे जाम की वजह से अपने तय रूट से ना जाकर इस मार्ग से जा रही थी | आमतौर पर  सुबह के समय बस  खाली रहती है | लेकिन परीक्षा होने की वजह से विद्यार्थी इसी बस में सवार होकर सीधी से सतना जा रह थे|  हादसे के तुरंत बाद तैरकर बाहर आ रहे 7 लोगों को ग्रामीणों ने बचा लिया  | सरकार ने मृतकों के परिजनों को 5 लाख रुपए के मुआवजे का ऐलान किया है | नहर गहरी होने की वजह से  गोताखोरों और पुलिस प्रशासन ने बड़ी मशक्कत के बाद बस को खोजा | क्रेन के जरिए बस को बाहर निकाला गया  | बस में बघवार, चोरगढ़ी समेत आसपास के भी यात्री सवार थे |  बस हादसे को लेकर सीएम शिवराज सिंह चौहान ने सीधी कलेक्टर से बात की  | इसके चलते  सीएम ने  भोपाल में होने वाली प्रधानमंत्री आवास योजना के गृहप्रवेशम कार्यक्रम को स्थगित कर दिया है  | घटना स्थल पर  प्रशासनिक अमला मौके पर पहुंचा |  शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर कहा- 'सीधी से सतना जा रही बस के नहर में गिरने से हुए हादसे में कई अनमोल जिंदगियों के काल कवलित होने के समाचार से बहुत दु:ख हुआ  |  ईश्वर से दिवंगत आत्माओं को अपने श्री चरणों में स्थान देने और लापता लोगों के सुरक्षित होने की प्रार्थना करता हूं | मैंने सीधी कलेक्टर से दुर्घटना के मामले में बात कर रेस्क्यू ऑपरेशन तेज करने के निर्देश दिए हैं | नहर के जलस्तर स्तर को कम करने के लिए बाणसागर की ओर से आने वाले पानी को भी रोक दिया गया है |  मौके पर एसडीआरएफ और प्रशासन की टीम मौजूद है | मैं सतत अधिकारियों के संपर्क में हूं।'  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 February 2021

 Employment Assistant Video

सड़क निर्माण में जेसीबी के कारण हुआ विवाद   सीधी में सूदूर सड़क निर्माण में जेसीबी मशीन से काम करने का झगड़ा सड़कों  पर  देखने को मिला  |  सरपंच और रोजगार सहायक के बीच झूमा झटकी और मारमारी हो गई  |  जिसका वीडियो शोसल मीडिया में जमकर वायरल हो रहा है |  दोनों पक्षों ने जिसकी शिकायत पुलिस से की है | पुलिस जांच के बाद कार्रवाई की बात कह रही है। सीधी जिले के रामपुर नैकिन जनपद अंतर्गत खड्डी खुर्द कि सरपंच तेरसिया पनिका पंचायत में चल रहे सुदूर सड़क निर्माण मेन तालाब से महावीर टोला तक का निर्माण कार्य करीब एक सप्ताह से शुरू किया गया है  | इस सड़क की लागत करीब 14 लाख 35 हजार रुपये है | महिला सरपंच का कहना था कि सुदूर सड़क निर्माण कार्य को जेसीबी से नहीं कराया जाए यदि जेसीबी से कार्य होता है तो गांव के मजदूरों को मजदूरी नहीं मिल पा रही है  | इसी बात को लेकर करीब एक सप्ताह से सरपंच तेरसिया पनिका और रोजगार सहायक आशीष विश्वकर्मा  के बीच बातचीत चल रही थी | शनिवार शाम को दोनों के बीच  बातों ही बातों में झगड़ा शुरू हो गया | ये इतना  बढ़ा की पहले इनके बीच  बीच झूमा झटकी  हुई और फिर नौबत मारपीट तक  पहुँच गई | वीडियो में आशीष कई बार सड़कों पर गिरे दिखाई दे रहे हैं तो वही सरपंच भी सड़कों पर गिरी देखने को मिली | खड्डी पुलिस चौकी पर दोनों ही पक्षों के द्वारा रिपोर्ट दर्ज कराई गई है  | पुलिस मामले की जांच कर रही है | भ्रष्टाचार के मामले को लेकर इस रोजगार सहायक का वीडियो पहले भी  वायरल हो चुका है |  तब प्रशासन  ने  कोई कार्रवाई नहीं की थी |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 January 2021

 Attack disclosure

गुमटी हटाए जाने से नाराज होकर किया था हमला   सीधी पुलिस ने तसीलदार लवलेश मिश्रा पर जानलेवा हमला करने वाले दो लेगों को गिरफ्तार कर लिया है  | हमलावरों में एक नाबालिग भी है  | हमलावर चाय की गुमटी हटाने  की बात से  तहसीलदार से  नाराज थे |  पुलिस अधीक्षक पंकज कुमावत ने कुसमी तहसीलदार  लवलेश मिश्रा के  ऊपर  हमले के मामले का खुलासा करते हुये बताया की  | चाय समोसे की गुमटी लगाने वाले  देवीदीन जायसवाल की गुमटी  पर  असामाजिक तत्वों का जमावड़ा लगता था  | जो की प्रभारी तहसीलदार लवलेश मिश्रा के  आवास के पास ही था  | जिस वजह से तहसीलदार ने दुकान हटाने की आरोपी को  हिदायत दी थी | जिससे नाराज होकर गुमटी संचालक ने एक नाबालिक के साथ मिलकर पीछे से कुल्हाड़ी से तहसीलदार पर प्राणघातक हमला किया  | इस पूरे मामले में कुल्हाड़ी सहित दो आरोपी गिरफ्तार किए गए हैं |  गौरतलब है की हमले के बाद से ही तहसीलदार मिश्रा  का रीवा संजय गांधी में उपचार जारी है | जहां वे  जिंदगी   और मौत की जंग लड़ रहे हैं  | उनके स्वास्थ्य में किसी तरह से सुधार होने के असर नहीं दिख रहे है  |  तहसीलदार मिश्रा  कोमा में  है  | रीवा आईजी ने  मिश्रा के  परिजनों से मुलकात की है  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  8 September 2020

 Ax attack

गंभीर हालत में जिला चिकित्सालय रेफर किया गया   सीधी में कानून व्यवस्था किस तरह डगमगाई हुई है  इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है की  |  कुसमी में पदस्थ तहसीलदार लवलेश मिश्रा के ऊपर कुछ अज्ञात लोगों ने धारदार हथियार से हमला कर दिया  |  जिससे उनको गंभीर चोटें आई  |   हालत गंभीर होने के कारण उनको रीवा जिला अस्पताल रेफर किया गया है  |  सीधी में आपराधिक घटनाएं बढाती जा रही हैं  .| अपराधी इतने बेख़ौफ़ हैं की उनको अब पुलिस का भी डर  नहीं रहा  |  आदिवासी ब्लॉक कुसमी मे पदस्थ प्रभारी  तहसीलदार लवलेश मिश्रा पर  कुछ अज्ञात लोगों ने धारदार हथियार से हमला कर दिया  |  बताया जा रहा मिश्रा जब अपने  शासकीय आवास के सामने शाम के वक्त घूम रहे थे |  तभी अज्ञात हमलावरो ने  कुल्हाड़ी से उनके  ऊपर हमला किया  |  जिससे उनको गंभीर चोटें आई  | हमले के बाद   कर्मचारियों द्वारा  उन्हें  प्राथमिक इलाज  के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मे भर्ती  कराया  गया था  |  घटना की जानकारी लगते ही सीधी कलेक्टर और  पुलिस अधीक्षक  | मिश्रा से मिलने पहुंचे | जिसके बाद हालत नाजुक होने के कारण  उन्हें जिला अस्पताल रीवा रेफर किया गया  | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 September 2020

 Unique performance

खस्ताहाल सड़क से परेशान हो रहे हैं लोग   सिंगरौली में खस्ताहाल सड़कों से लोग परेशान हैं  | कांग्रेस ने जर्जर सड़क पर धान का पौधा रोप कर सरकार के प्रति आक्रोश जाहिर किया और राजयपाल के नाम ज्ञापन प्रशासन को सौंपा  |  सीधी सिंगरौली राष्ट्रीय राजमार्ग की दुर्दशा को लेकर कांग्रेस ने  अनोखा विरोध प्रदर्शन किया  |  "NH-39" की खस्ताहाल एवं जर्जर सड़क की दुर्दशा को लेकर  कांग्रेस  ने  सेंटर हॉस्पिटल मोरवा   के सामने  प्रदर्शन  करते हुए  |  राज्यपाल   के नाम कलेक्टर प्रतिनिधि को ग्यापन सौंपा  | कांग्रेस   महामंत्री डॉक्टर महेंद्र सिंह चौहान  एवं जिला कांग्रेस कमेटी शहर अध्यक्ष अरविंद सिंह चंदेल के नेतृत्व में सड़क पर धान का  पौधा  लगाया गया  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  15 July 2020

Human shame

शव लेजाने को नहीं मिली एम्बुलेंस ठेले से ले गए अंतिम संस्कार को नहीं थे पैसे शव नदी में बहाया   सरकारे आती हैं और गरीव आदिवासी समूह के लिए कई योजनाओं पर बात करती हैं |  मगर हकीकत इससे बिलकुल उलट हैं | कोई गरीब आदिवासी बीमार हो तो उसे इलाज से लेकर मरने तक सिर्फ जिल्ल्त मिलती हैं  |  लम्बे समय से बीमार चल रही महिला की मृत्यु हो गई तो गरीब परिवार महिला का दाह संस्कार भी नहीं कर पाया और शव नदी में बहा दिया  |  सीधी जिला मुख्यालय के कोटहा निवासी आदिवासी कोल परिवार की एक महिला लंबे समय से बीमारी थी | अचानक महिला की मौत हो गई  |   | मृत महीला का परिवार बेहद गरीब हैं | इस कारण परिवार के पास मृतिका के शव को हिंदू रीति रिवाज  के हिसाब से दाह संस्कार करने तक के पैसे नहीं थे  | ऐसे में पीड़ित परिवार ने नगर पालिका से मदद मांगी  |  लेकिन रविवार होने की वजह से दफ्तर भी बंद | अधिकारी भी जिले से बाहर जाने वाले के शव को अब इन अधिकाइयों के छुट्टी से बापस आने तक रोका नहीं जा सकता था | लिहाजा परिजन मजबूरन एक रिक्शे ठेले में मृतिका के शव को लेकर जिला मुख्यालय से 12 किलोमीटर दूर सोन नदी में प्रवाहित करने चल पड़े|  हालांकि मृतिका के परिजनों ने नगरपालिका से शव वाहन की मांग की थी लेकिन लापरवाह बना नगरी प्रशासन शव वाहन गरीब परिवार को नहीं उपलब्ध करा सका  | वही मृतिका के परिजनों में नगरी प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए बताया कि नगर पालिका से शव वाहन की मांग की गई थी |  लेकिन नहीं मिल सका है गरीबी है पैसे नही हैं  इसलिए सोन नदी में प्रवाहित करने ले जा रहे हैं मृतिका मेरी बहन है जो लंबे समय से बीमारी से पीड़ित थी आज सुबह इसकी मौत हो गई है |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 July 2020

  Lokayukta raid

आय से ज्यादा संपत्ति के मामले में पड़ा छापा   सीधी में लोकायुक्त  टीम ने  बैंक प्रबंधक प्रेम धारी सिंह चौहान के  दो  आवासों  पर  एक साथ छापा मारा  | चौहान बेहिसाब संपत्ति के मालिक बताए जा रहे हैं  | लोकायुक्त पुलिस  काफी दिन से इनके यहां कार्यवाही करने के लिए योजना बना रही थी  |  लोकायुक्त पुलिस ने  निरीक्षक प्रमेंद्र सिंह  | अनूप सिंह  | डीएसपी मरावी के नेतृत्व में एक  टीम ने  बैंक मैनेजर  प्रेम धारी सिंह चौहान के आवास में पहुंचे लोकायुक्त की टीम अर्जुन नगर आवास में छापामारी की कार्रवाई  की | जबकि दूसरी टीम उनके नौढिया  स्थित दूसरे आवास पर कार्यवाही कर रही है डीएसपी बीके पटेल से प्राप्त जानकारी के अनुसार कॉपरेटिव बैंक मैनेजर प्रेम धारी सिंह पर आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने की शिकायत 2018 से चल रही थी जिस पर कार्यवाही करते हुए  प्रारंभिक जांच मे  बड़ी संपत्ति का पता चला है  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  23 March 2020

 HATYA

होली खेलने पर हुआ था विवाद   होली खेलने ससुराल गए युवक का इतना विवाद हुआ की उसकी हत्या हो गई |  युवक के परिजनों ने आरोप लगाया की पुलिस जाँच ठीक से नहीं कर रही हैं   NH - 39 पर चक्का जाम कर दिया  |  सीधी जिले के थाना रामपुर नैकिन गांव के  निवासी निर्मोही साकेत की कल शाम तकरीबन 5 बजे हत्या हो गई |  निर्मोही साकेत अपने ससुराल मे होली खेलने आया था  |  जहां होली खेलने मे इतना विवाद हुआ की उसे अपनी जान गवानी पड़ी |  युवक के  परिजनो का आरोप हैं की पुलिस हत्या के कारणो की सही जांच नही कर रही हैं |  और ना ही गिरिफ्तार कर रही हैं |  जिसके कारण आज NH 39 मे आसपास के लोगों और परिजनों ने चक्का जाम कर दिया लोगो का कहना हैं की  | जब तक पुलिस सही ढंग से जांच कर आरोपियों को गिरफ्तार नहीं कर लेती हम लोगों का धरना प्रदर्शन जारी रखेंगे | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  12 March 2020

 AJAY SINGH

कांग्रेस राज में हमारी ही नही हो रही सुनवाई   मध्यप्रदेश में कमलनाथ की सरकार  से आम जनता के साथ कांग्रेस नेता भी परेशान हैं |  ज्योतिरादित्य  सिंधिया के बाद अब पूर्व नेता प्रतिपक्ष  अजय सिंह का दर्द भी जुबान पर आ गया उन्होंने कहा  कमलनाथ सरकार में  हमारी  बात ही नहीं सुनी जाती |  कांग्रेस के बड़े नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया और मुख्यमंत्री कमलनाथ के बीच की कड़वाहट सार्वजनिक हो चुकी है |  ऐसे में कांग्रेस के एक और कद्दावर नेता   अजय सिंह ने भी कमलनाथ सरकार के खिलाफ बागी रुख अख्तियार कर लिया है |  अजय सिंह मध्य प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रह चुके हैं. |  उनका कहना है कि वह अपने क्षेत्र सीधी में विकास कार्य कराना चाहते हैं, लेकिन कमलनाथ सरकार में उनकी आवाज अनसुनी की जा रही है. |   अजय सिंह सीधी पहुंचे  | यहां उन्होंने कहा, 'मैं सीधी में विकास कार्य कराना चाहता था. | युवाओं को रोजगार देना चाहता था |   यहां की सिंचाई व्यवस्था में सुधार करना चाहता था. |  लेकिन मेरी आवाज अब नहीं सुनी जा रही है. |  अजय सिंह कमलनाथ सरकार में खुद को उपेक्षित महसूस कर रहे हैं  | युवा संवाद कार्यक्रम में वे भावुक  हो गए और उनका दर्द उनकी जुबान पर आ गया    और उन्हें कहना पड़ा  हमारी ही सुनवाई नही हो रही, सरकार होने के बाद भी सब कुछ ठीक नही चल रहा |  इससे जाहिर है कांग्रेस के भीतर कुछ भी ठीक नहीं चाल रहा है और कांग्रेस गुटबाजी के भंवर में फंसी हुई है |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 March 2020

 RALLY IN SUPPORT OF CAA

रीति पाठक:कांग्रेस गुमराह करती है सचेत रहें   सीधी में भारतीय जनता पार्टी ने  नागरिकता संशोधन कानून  के समर्थन में विशाल तिरंगा यात्रा का आयोजन किया | . इस दौरान भाजपा ने विपक्ष  पर देश को गुमराह करने का आरोप लगाया .| और कहा की देश को कांग्रेस से सचेत रहने की आवश्यकता है  |  सीधी में भारतीय जनता पार्टी ने  CAA  के समर्थन में रैली  का आयोजन किया | . रैली में भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ बड़ी संख्या आम जनो ने बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया  | रैली की अगुवाई सीधी सांसद रीती पाठक, विधायक कुँवर सिंह टेकाम, विधायक शरदेंदु तिवारी, व जिलाध्यक्ष इन्द्रशरन सिंह ने  की  | लोगों ने एक किलोमीटर लंबा तिरंगा झंडा लेकर शहर में रैली निकाली | और भारत माता के जयकारे लगाए  |  इस दौरान सांसद रीती पाठक ने कहा कि समान नागरिकता संहिता को पूरे देश में लागू करना केन्द्र सरकार का ऐतिहासिक निर्णय है | इसके लागू होने के बाद से विदेशों में प्रताडि़त होने वाले हिंदुओं को भी यहां आने पर नागरिकता का अधिकार मिल सकेगा  | साथ ही ऐसे हिंदू जो कई वर्षो से शरणार्थी बनकर देश में रह रहे थे  |  उन्हे भी नागरिकता मिल जायेगी  उन्होने जोर देकर कहा कि सीएए में ऐसा कोई प्रावधान नही है कि  |  देश में रहने वाले किसी भी नागरिक की नागरिकता को खतरा होगा  | यह अवश्य है कि कांग्रेस और विपक्ष इस मामले में लोगों को गुमराह कर रहा है  |  जिससे सभी को सचेत रहने की जरूरत है |  भाजपा जिलाध्यक्ष इन्द्रशरण सिंह ने कहा कि विपक्षी दलों द्वारा सीएए एवं एनआरसी को लेकर भृम फैलाया जा रहा है  | हकीकत यह है कि सीएए एवं एनआरसी देश के सभी लेागों के हितों की रक्षा करती है  | और इससे किसी को भी घबराने की जरूरत नही है  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  20 January 2020

madhyprdesh

हानएमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को देर रात सीधी को मिनी स्मार्ट-सिटी बनाने के लिये 21 करोड़ के कार्यो सहित जिले में 600 करोड़ रुपये लागत के निर्माण एवं विकास कार्यों का लोकार्पण तथा शिलान्यास किया। श्री चौहान ने विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि मध्यप्रदेश को विकास और जन-कल्याण के क्षेत्र में देश का नम्बर-1 राज्य बनाया जायेगा। इस लक्ष्य की प्राप्ति के लिये अभियान शुरू कर दिया गया है। राज्य सरकार विकास के साथ-साथ आम जनता की जिंदगी को खुशहाल बनाने के लिये कृत-संकल्पित होकर कार्य कर रही है। श्री चौहान ने प्रदेश में संचालित जन-कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी देते हुए लोगों से आग्रह किया कि योजनाओं का लाभ लेने के लिए अधिकारपूर्वक आगे आएँ। उन्होंने कहा कि समाज के कमज़ोर वर्ग को मूलभूत सुविधाएँ उपलब्ध करवाने के लिए संबल योजना आरंभ की गयी है। इसके माध्यम से गरीब परिवारों को पट्टा, आवास, शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार आदि सुविधा प्रदान की जा रही है। संबल योजना में गरीब परिवारों के प्रतिभावान बच्चों को उच्च शिक्षा के लिए राज्य सरकार हर तरह की सुविधाएँ और सहायता मुहैया करवा रही है। उन्होंने लोगों से कहा कि बच्चों की उच्च शिक्षा के ख़र्च की चिन्ता छोड़कर उन्हें ख़ूब पढ़ायें, पूरी व्यवस्था राज्य सरकार करेगी। श्री चौहान ने बताया कि ग़रीब परिवारों के भारी-भरकम बिजली के बिल माफ़ कर उन्हें मात्र 200 रूपये प्रति माह के मान से बिजली देने का निर्णय लिया गया है। सौभाग्य योजना की जानकारी देते हुए श्री चौहान ने कहा कि हर गाँव और मजरे टोले में बिजली पहुँच रही है। अब वह दिन दूर नहीं है, जब हर ग़रीब के घर में बिजली से उजाला होगा। मुख्यमंत्री ने 486 करोड़ 96 लाख रुपये लागत की महान (गुलाब सागर) परियोजना के प्रथम चरण का लोकार्पण किया। यह एक वृहद परियोजना है जो रामपुर नैकिन विकासखंड के खड्डी ग्राम की महान नदी पर निर्मित है। अमरपुर में इसके द्वितीय चरण का भूमि-पूजन रविवार को ही मुख्यमंत्री द्वारा किया गया है। इस योजना के पूर्ण होने पर तहसील रामपुर नैकिन, गोपद बनास, बहरी एवं सिहावल के 167 ग्रामों के 23 हजार 574 हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई सुविधा का विस्तार होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार ने 40 लाख हेक्टेयर में सिंचाईं की व्यवस्था की है। बाणसागर परियोजना के माध्यम से पूरे विन्ध्य क्षेत्र में सिंचाई सुविधाओं का विस्तार किया गया है। गुलाब सागर महान परियोजना के माध्यम से सीधी जिले में सिंचाई का विस्तार किया जा रहा है। इस योजना की पूर्णता के पश्चात् लाभान्वित कृषकों की आर्थिक एवं सामाजिक स्थिति में सुधार होगा, भू-जल स्तर में वृद्धि होगी, पशुओं को पर्याप्त चारा मिलेगा और पानी की उपलब्धता बढ़ेगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 September 2018

arunoday elton

  मध्यप्रदेश के चुरहट विधायक अजय सिंह के पुत्र अरुणोदय की शादी ली एल्टन से तय होने की खबर है।   अजय सिंह राहुल के पुत्र और अर्जुन सिंह के पोते अभिनेता अरुणोदय सिंह की शादी 13 नवंबर को सीधी जिले के चुरहट से होगी। अरुणोदय कनाडा मूल की गोवा में रहने वाली ली एल्टन से शादी करने जा रहे हैं। एल्टन गोवा के सबसे बड़े कैफे की मालिकन हैं।सूत्र बताते हैं  ये दोनों लंबे समय से live in में थे।    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 November 2016

trp mpcg

मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में जी न्यूज़ की बादशाहत कायम हो गई है। बीते 52 हफ़्तों [एक साल ] से जी न्यूज़ पहले नंबर पर बना हुआ है। वहीँ बंसल न्यूज़ दूसरे और ibc तीसरे नंबर पर है। इन चैनल की शानदार ख़बरों और प्रोग्रामिंग ने बाकि चैनल्स को पछाड़ दिया है। जी न्यूज़ के दफ्तर में 40 वें हफ्ते की टीआरपी के बाद जश्न का माहौल है। वहीँ नेशनल चैनल्स में आज तक के तिलिस्म को कोई तोड़ नहीं पा रहा हैं।    मध्यप्रदेश/ छत्तीसगढ़ के टॉप फाइव चैनल Week 40 .... Zee MP CG.... 47.1 Bansal....         19.1 IBC....                18.5 etv..........            12.2 India news....      2.0   टीआरपी नेशनल न्यूज़ चैनल्स Weekly Relative Share: Source: BARC, HSM, TG:CS15+,TB:0600Hrs to 2400Hrs, Wk 40 Aaj Tak 16.6 dn 0.6  India TV 14.3 up 0.6  India News 14.0 up 0.6  Zee News 12.1 dn 0.1  ABP News 11.7 dn 0.4    TG: CSAB Male 22+ Aaj Tak 16.2 dn 1.0  India TV 15.3 up 0.3  Zee News 13.3 up 0.8  ABP News 12.2 up 0.1  India News 11.1 up 0.1   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 October 2016

Video
Advertisement
x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved ©2024 MadhyaBharat News.