Since: 23-09-2009

  Latest News :
कांग्रेस इस बार 40 सीट भी पार नहीं कर पाएगी : अमित शाह.   अपने गुरु को धोखा देने वाला दिल्ली के लोगों का विश्वास कैसे जीत सकता है : राजनाथ.   महाराष्ट्र के डोंबिवली में केमिकल कंपनी में बॉयलर फटने से छह लोगों की मौत.   भ्रष्टाचार के खिलाफ आंदाेलन करते करते खुद जेल चले गए केजरीवाल : भजनलाल शर्मा.   एसडीआरएफ टीम की नाव पलटी 03 जवानों की मौत.   कोलकाता के न्यू टाउन में मिला बांग्लादेश के लापता सांसद का शव.   नौतपा के पहले ही जमकर तप रहा इंदौर.   तुष्टीकरण ही कांग्रेस और टीएमसी की खुराक: शिवराज.   वैशाख पूर्णिमा पर कुबेरेश्वरधाम में उमड़ा आस्था का सैलाब.   नर्सिंग घोटाला शैक्षणिक जगत के लिए कलंकित करने वाला घोटाला: मुकेश नायक.   हाइटेंशन लाइन की चपेट में आने से दो छात्रों की मौत.   चंद्रमा का भी होता है नामकरण, बुद्ध पूर्णिमा का चांद ‘फ्लावर मून’ कहलाएगा.   प्रदेश के कई जिलों में प्री मानसून की बारिश.   कलकत्ता हाईकोर्ट का निर्णय मुंह पर तमाचा : विष्णु देव साय.   स्व. वरिष्ठ पत्रकार की पत्नी की घर पर मिली लाश.   अज्ञात वाहन ने बाइक सवार को मारी टक्कर एक युवक की हुई मौत.   झीरम जांच रिपोर्ट सार्वजनिक करेगी सरकार : विजय शर्मा.   नारायणपुर जिले की सीमा पर नक्सलियों से जवानों की मुठभेड़.  

बडवानी News


badwani, Ujjain

बड़वानी। उज्जैन में पदस्थ डिप्टी कलेक्टर डॉ. अभय सिंह खराड़ी को दुष्कर्म के आरोप में बड़वानी की महिला थाना पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। एक महिला कर्मचारी ने गत 29 अप्रैल को उनके खिलाफ बड़वानी के महिला थाने में केस दर्ज कराया था। जिसके बाद से ही खराड़ी फरार चल रहे थे।   जानकारी के मुताबिक, डॉ. अभय सिंह खराड़ी बड़वानी में वर्ष 2016 से एसडीएम के रूप में पदस्थ था। एक माह पूर्व ही उज्जैन ट्रांसफर हुआ था। आरोप है कि बड़वानी में पदस्थ रहने के दौरान पीड़ित युवती से दुष्कर्म कर उसे डराता- धमकता था। पीड़ित यवती की शिकायत पर चार दिन पूर्व 29 अप्रैल को खराड़ी के विरुद्ध प्रकरण दर्ज किया गया था। इसके बाद पुलिस ने दबिश देकर गुरुवार रात भोपाल से उसे गिरफ्तार किया।   पुलिस अधीक्षक पुनीत गेहलोद ने बताया कि शुक्रवार को महिला थाने में संबंधित आरोपित अधिकारी के प्रकरण की फाइल तैयार कर पुलिस ने जिला न्यायालय में पेश किया, जहां से शाम को उसे केंद्रीय जेल भेज दिया गया। पुलिस द्वारा आरोपित का मुंह ढंकते हुए बाइक पर बैठाकर केंद्रीय जेल में दाखिल करवाया गया। पुलिस के अनुसार विविध धाराओं में मामला दर्ज होने के बाद से खराड़ी फरार हो गया था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 May 2024

badwani, Car hits bike, four people die

बड़वानी। मध्यप्रदेश के बड़वानी जिले के सेंधवा ग्रामीण थाना क्षेत्र में रविवार को एक तेज रफ्तार कार और बाइक के बीच जोरदार भिड़ंत हो गई। इस हादसे में बाइक सवार एक ही परिवार के चार लोगों की मौत हो गई। मृतकों में पति-पत्नी और दो बच्चे शामिल है।     ग्राम जोड़ाईं का रहने वाला परिवार मजदूरी के लिए महाराष्ट्र के जलगांव जा रहा था। इसी दौरान सेंधवा-बलवाड़ी मार्ग पर ग्राम शाहपुर के पास यह हादसा हुआ। हादसे में पति-पत्नी और दो बच्चों की मौत हो गई। मृतकों में पति शिवा, पत्नी सिंगला बाई, उनकी आठ वर्षीय बेटी ज्योति और छह वर्षीय बेटा आशीष शामिल है। पुलिस ने चारों के शवों को सेंधवा के सिविल अस्पताल पहुंचाया।     पुलिस के अनुसार हादसे के बाद कार चालक मौके से फरार हो गया। मृतक सिंगला बाई के रिश्तेदार विजय पटेल ने बताया कि वह कल ही वैवाहिक कार्यक्रम में सम्मिलित होकर वापस जोड़ाई लौटे थे। रविवार को मजदूरी के लिए महाराष्ट्र के जलगांव क्षेत्र जा रहे थे, तभी यह हादसा हो गया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  21 April 2024

badwani, Three killed ,tractor-trolley filled

बड़वानी। मध्य प्रदेश के बड़वानी जिले में ठीकरी थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम कुआं में शनिवार को मजदूरों से भरी एक ट्रैक्टर-ट्रॉली अनियंत्रित होकर पलट गई। इस हादसे में तीन मजदूरों की मौत हो गई और पांच लोग हो गए। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और स्थानीय लोगों की मदद से घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया। वहीं, मृतकों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।       ठीकरी थाना पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, आसपास के ग्रामों से मजदूरों को लेकर शनिवार को ट्रैक्टर-ट्रॉली से ग्राम कुआं के एक खेत में कपास की फसल चुनने के लिए ले जाया जा रहा था। इसी दौरान ग्राम कपाड़िया खेड़ी रोड़ पर मोड़ पर टैक्टर-ट्रॉली के सामने अचानक अचानक जानवर आ गए। उन्हें बचाने के चक्कर में टैक्टर-ट्रॉली अनियंत्रित होकर पलट गई और सीधे सड़क किनारे नाले में जा गिरी। सूचना मिलते ही तत्काल पुलिस मौके पर पहुंच गई और घायलों को एम्बुलेंस की मदद से अस्पताल पहुंचाया।   थाना प्रभारी विक्रम सिंह बामनिया ने बताया कि हादसे में ट्रैक्टर ट्रॉली में सवार तीन मजदूर अमित पुत्र ओम पाटीदार निवासी ग्राम कुआं, अनिल पुत्र खेलसिंग निवासी ग्राम गोलबावड़ी और साजन पुत्र इंदास ग्राम पुष्पखेड़ा निवाली की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि पांच मजदूर घायल हुए हैं, जिनमें रणजीत पुत्र इंदास पुष्पखेड़ा निवासी निवाली, खेलसिंग पुत्र नानसिंग निवासी गोलबावड़ी, कविता पत्नी राजेश निवासी गोलबावड़ी, बाईली पुत्री कामा निवासी गोलबावड़ी, ममता पुत्री कामा निवासी गोलबावड़ी शामिल हैं। घायलों को एम्बुलेंस के माध्यम से प्राथमिक उपचार के लिए ठीकरी लाया गया, जहां प्राथमिक उपचार के बाद पांचों को बड़वानी जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया है। पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर लिया है और मामले की जांच की जा रही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  8 October 2023

badwani, Four years jail ,panchayat secretary

बड़वानी। प्रथम अपर सत्र न्यायालय कैलाश प्रसाद मरकाम बड़वानी ने पारित अपने फैसले रिश्वत लेने के आरोपित पंचायत सचिव को दोषी ठहराते हुए विभिन्न दाराओं में चार वर्ष के सश्रम कारावास और पांच हजार रुपये के जुर्माने से दंडित किया है। मामले में अभियोजन की ओर से पैरवी सहायक जिला लोक अभियोजन अधिकारी एसएस अजनारे द्वारा की गई।   अभियोजन मीडिया प्रभारी कीर्ति चौहान ने गुरुवार को मामले की जानकारी देते हुए बताया कि 04 फरवरी 2016 को आवेदक नसरू पुत्र ज्ञानसिंह तोरोले ग्राम किडीअम्बा तहसील सेंधवा ने लोकायुक्त कार्यालय इंदौर में उपस्थित होकर एक टाईपशुदा शिकायत आवेदन दिया था। जिसमें पत्र सहमति पत्र व मोबाईल फोन से रिकार्ड की गई रिकार्डशुदा मेमोरी कार्ड सहित पुलिस अधीक्षक लोकायुक्त इन्दौर के समक्ष पेश किया। आवेदक के गांव के 13 लोगों के राशन कार्ड बनवाने एवं 10 लोगों के वद्धावस्था पेन्शन फार्म अग्रेषित करवाने के लिए ग्राम पंचायत किडीअम्बा के सचिव संजय जायसवाल के पास गया, तो आरोपित संजय (अनावेदक) द्वारा आवेदक से 500 प्रति आवेदन पत्र के हिसाब से 11500 रुपये रिश्वत की मांग की। 03 फरवरी 2015 को आरोपित ने आवेदक के मोबाईल पर फोन लगाकर आवेदक को 10 हजार रुपये रिश्वत राशि लेकर सेंधवा बुलाया। आवेदक द्वारा इस संबंध अपने गांव के संबंधित हितग्राहियों से अनावेदक के द्वारा रिश्वत मांग की चर्चा की गई, तो हितग्राहियों ने अनावेदक को रिश्वत राशि देने से मना किया और लोकायुक्त पुलिस में कार्यवाही करने की अपनी लिखित सहमति आवेदक को दी आवेदक एवं इसके गांव के लोग अनावेदक संजय जायसवाल को रिश्वत नहीं देना चाहते हैं, बल्कि उसे रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकडवाना चाहते हैं।   लोकायुक्त की टीम ने आरोपित पंचायत सचिव संजय जायसवाल को योजनाबद्ध तरीके से 10 हजार रुपये की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया। आरोपित संजय (40) पुत्र राधेश्याम जायसवाल निवासी ग्राम चाचरिया थाना सेंधवा ग्रामीण जिला बड़वानी के विरूद्ध अपराध धारा 7 भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम 1988 का अपराध घटित होना पाया जाने से अपराध सदर कायम कर विवेचना में लिया गया। फरियादी/आवेदक की रिपोर्ट पर से विशेष पुलिस स्थापना लोकायुक्त इन्दौर पर अपराध क्रं. 42/16 धारा 7, 13(1)डी, 13(2) भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम 1988 के अंतर्गत आरोपित के विरूद्ध अपराध पंजीबद्ध किया गया। विवेचना उपरांत न्यायालय मे चालान पेश किया गया।   अदालत ने आरोपित संजय जायसवाल को रिश्वत लेने के आरोप में धारा 7 भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम एवं धारा 13(1)(ए) धारा 13(2) भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम में 4-4 वर्ष एवं 5-5 हजार रुपये के अर्थदंड से दंडित किया।।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 August 2023

badwani, Ti Waskale , state honors

बड़वानी। देवास जिले के नेमावर थाने में पदस्थ थाना प्रभारी राजाराम वास्कले का सोमवार को उनके गृह ग्राम जिले के कोयड़िया में राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। हजारों ने लोगों ने उन्हें नम आंखों से अंतिम विदाई दी। इससे पहले उन्हें पुलिस जवानों ने गार्ड आफ आनर दिया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने टीआई वास्कले के परिवार को एक करोड़ रुपये की सम्मान निधि देने की घोषणा की है। बड़वानी जिले में अंजड क्षेत्र के मंडवाड़ा के पास छोटे से गांव कोयड़िया के साधारण किसान परिवार में राजाराम वास्कले देवास जिले के नेमावर थाने पर पदस्थ थे। रविवार को उनकी नदी में डूबने से मौत हो गई थी। दरअसल, उन्हें ड्यूटी के दौरान जामनेर नदी पर बने स्टॉप डैम में एक लाश होने की सूचना मिली थी। उन्होंने पानी में कूदकर उसे निकालने की कोशिश की, लेकिन सफल नहीं हुए। उसके बाद फिर उन्होंने नदी में उतरकर शव को निकालने का प्रयास किया। इस दौरान वह वहां भंवर में फंस गए। उसके बाद वहां मौजूद जवानों और ग्रामीणों ने रस्सी की मदद से उन्हें निकाला और अस्पताल ले गए। गंभीर हालत में उन्हें हरदा जिला अस्पताल रेफर किया गया, जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। उनके निधन के बाद गांव और पूरे क्षेत्र में शोक की लहर व्याप्त है। जांबाज सिपाही परिवार में माता-पिता, पत्नी व दो छोटे बच्चो को छोड़ गए। सोमवार सुबह उनका पार्थिव शरीर ग्राम कोयड़िया पहुंचा। उनकी पार्थिव देह को रिमझिम वर्षा के बीच गांव के प्रमुख मार्गों से मुक्तिधाम लाया गया। नदी तट स्थित मुक्तिधाम पर देवास व बड़वानी जिले के आला पुलिस अधिकारियों की मौजूदगी में गार्ड आफ आनर दिया गया। इस दौरान प्रदेश के कैबिनेट मंत्री प्रेमसिंह पटेल, पूर्व गृहमंत्री बाला बच्चन सहित अन्य जनप्रतिनिधि भी मौजूद रहे। सभी ने दो मिनट का मौन रखकर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। इधर, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को ट्वीट के माध्यम से कहा कि अत्यंत दुःखद है कि बड़वानी जिले के हमारे टीआई राजाराम वास्कले अपने कर्तव्य की पूर्ति करते हुए जामनेर नदी में शव निकालने के दौरान दुर्भाग्य से भंवर में फंस गए और अब हमारे बीच नहीं रहे। स्वर्गीय वास्कले का परिवार अब मेरा परिवार है। हमने फैसला किया है कि प्रशासन की ओर से वास्कले के परिवार को एक करोड़ रुपए की सम्मान निधि दी जाएगी एवं राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। मैं उनके चरणों में श्रद्धा के सुमन अर्पित करता हूं एवं परमपिता परमात्मा से प्रार्थना करता हूं कि वह उनकी दिवंगत आत्मा को शांति दें।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 July 2023

सीएम शिवराज ने बड़वानी में किया पौधारोपड़

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बड़वानी सर्किट हाउस में सुबह नीम, बरगद एवं पीपल(त्रिवेणी) के पौधे लगाये। मुख्यमंत्री  ने प्रदेश-स्तरीय विकास पर्व का शुभारंभ करने के बाद रविवार को बड़वानी में रात्रि विश्राम किया था। इस दौरान उन्होने कहा कि, त्रिवेणी बड़वानी के विकास का प्रतीक है। पशुपालन मंत्री प्रेम सिंह पटेल, राज्यसभा सदस्य डॉ. सुमेर सिंह सोलंकी, क्षेत्रीय सांसद  गजेन्द्र सिंह पटेल, नगर पालिका अध्यक्ष अश्विनी निक्कु चौहान, ओम सोनी सहित जन-प्रतिनिधि इस दौरान मौजूद रहे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 July 2023

badwani, Dead body ,Narmada river

बड़वानी। शहर के समीप राजघाट स्थित नर्मदा नदी पर बने पुल से शनिवार देर रात छलांग लगाने वाले युवक का शव रविवार सुबह मिल गया। शव मिलने के बाद शहर कोतवाली पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। युवक ने यह कदम क्यों उठाया है, फिलहाल इसके कारणों की स्पष्ट जानकारी नहीं मिली है। पुलिस ने मर्ग कायम कर मामला जांच में लिया है। जानकारी अनुसार बड़वानी के रानीपुरा निवासी अश्विन (27 वर्ष) पुत्र लालाराम कुशवाह ने शनिवार देर रात राजघाट पुल से नर्मदा नदी में छलांग लगा दी थी। शहर कोतवाली थाना प्रभारी सोनू शितोले ने बताया कि सूचना मिलने के बाद देर रात अंधेरा होने के कारण शव की तलाशी नहीं हो सकी। रविवार सुबह एसडीईआरएफ की टीम ने सर्चिंग कर शव बरामद किया। युवक का शव रविवार नर्मदा नदी के पुल के पास ही पाया गया। शव को पोस्टमार्ट्म के लिए भिजवाया है। युवक ने कदम क्यों उठाया इसका पता नहीं चल सका है। पुलिस ने मर्ग कायम कर मामला जांच में लिया है। इधर मृतक के चचेरे भाई मयूर कुशवाह ने बताया कि अश्विन कुछ दिनों से मानसिक तनाव में था। इसी के चलते यह कदम उठाया गया है। दो साल पहले अश्विन की शादी हुई थी और उस का एक बच्चा भी है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  28 May 2023

badwani, Four youths , Narmada river drowned

बड़वानी। मध्य प्रदेश के बड़वानी जिला मुख्यालय से 42 किलोमीटर दूर अंजड़ थाना क्षेत्र के लोहारा घाट पर बुधवार को नहाने के दौरान चार युवक नर्मदा नदी में डूब गए। सूचना मिलने पर पुलिस और एसडीआरएएफ की टीम मौके पर पहुंची और राहत एवं बचाव कार्य शुरू किया। बताया जा रहा है चार में से एक युवक का शव बरामद कर लिया है, जबकि शेष तीन की तलाश जारी है।   अंजड थाना पुलिस के अनुसार, गुजरात के ग्राम टोकरियां और धार जिले के ग्राम मिर्जापुर से 11 लोग बुधवार को सुबह नर्मदा नदी में नहाने के लिए मलनपुर से नाव में बैठकर लोहारा घाट आए थे। यहां पर नहाने के दौरान एक युवक डूब रहा था। उसे बचाने के लिए उसके तीन दोस्त भी नदी में चले गए जो गहरे पानी में जाने से डूब गए। घटना सुबह 10 बजे की बताई जा रही है। मौके पर मौजूद लोगों की सूचना पर पुलिस और एसडीएआरएफ की टीम मौके पर पहुंची और नर्मदा में डूबे युवकों की तलाश शुरू की। इस दौरान राहत एवं बचाव दल ने एक युवक का शव बरामद कर लिया है, जिसकी पहचान मोहम्मद किफातुल्ला निवासी गुजरात के रूप में हुई है। डीएसपी कुंदन सिंह मंडलोई भी मौके पर पहुंच गए हैं।   पुलिस के अनुसार, नर्मदा नदी में डूबने वाले अन्य तीन युवकों के नाम मोहम्मद असरार, जुनैद और जुबैर बताए गए हैं। एसडीआरएएफ की टीम उनकी तलाश में जुटी है। पुलिस ने बताया कि नर्मदा में डूबने वाला जुबैर धार जिले के मिर्जापुर का रहने वाला है। अन्य दो युवक गुजरात के हैं। सभी डूबने वाले युवकों की उम्र 30 से 40 वर्ष है। नहाने आए लोगों में से मोहम्मद मुवाज ने बताया कि हम जमात के 11 लोग यहां पर नहाने आए थे। अन्य सभी साथी सुरक्षित हैं। डीएसपी कुंदन मंडलोई ने बताया कि घटना की जानकारी लगते ही एसडीआरएफ की टीम मौके पर बचाव कार्य में लग गई है। चार लोगों की डूबने की जानकारी है जिसमें से एक का शव बरामद कर दिया गया है। अन्य युवकों की तलाश जारी है। शव को जांच के लिए अंजड़ शासकीय अस्पताल ले जाया गया है। आगे की कार्रवाई की जा रही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 March 2023

badwani,  Rudraksh festival ,accident

बड़वानी। सीहोर में रुद्राक्ष महोत्सव में हिस्सा लेने आए महाराष्ट्र से एक परिवार की कार शुक्रवार को वापस लौटते समय बड़वानी जिले के जुलवानिया के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गई। इस हादसे में दो महिलाओं की मौत हो गई, जबकि तीन महिलाएं व वाहन का चालक घायल हो गया। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को अस्पताल पहुंचाया। वहीं, मृतकों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर मामले को जांच में लिया है। जानकारी के अनुसार, महाराष्ट्र के अमलनेर का परिवार सीहोर में सीहोर में चल रहे पंडित प्रदीप मिश्रा के रुद्राक्ष महोत्सव में हिस्सा लेने के लिए आया था। शुक्रवार को यह परिवार वापस लौट रहा था। इस दौरान उनकी ईको वैन क्रमांक एमपी-19, डीवी 6783 जुलवानिया के पास जायसवाल होटल के सामने एबी रोड पर अनियंत्रित होकर सड़क किनारे लगे पेड़ से टकरा गई। इससे दो महिलाओं सोभाबाई (50) पत्नी लुकडू पाटिल निवासी पटोंदा अमलनेर महाराष्ट्र एवं कमल बाई (55) पत्नी आत्माराम पाटिल निवासी अमलनेर महाराष्ट्र की मौके पर मौत हो गई। दोनों महिलाएं आपस में देवरानी-जेठानी हैं।   जुलवानिया थाना प्रभारी विनय आर्य ने बताया कि हादसे में महाराष्ट्र के अमलनेर निवासी दो लोगों की मौत हुई है। वहीं, तीन महिलाएं और चालक घायल है, जिनको उपचार के लिए अस्पताल पहुंचाया गया है। मृतकों का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 February 2023

badwani, Truck crushed ,pushing loading vehicle, three died

बड़वानी। जिले के ठीकरा थाना क्षेत्र में आगरा-मुम्बई राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक तीन पर गुरुवार-शुक्रवार की दरमियानी देर रात लोडिंग वाहन को धक्का लगा रहे लोगों को एक तेज रफ्तार अज्ञात ट्रक ने जोरदार टक्कर मार दी। हादसे के बाद ट्रक लोगों को कुचलते हुए निकल गया। इस हादसे में तीन लोगों की मौत हो गई, जबकि छह अन्य लोग घायल हुए हैं, जिन्हें उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती किया गया है। पुलिस फिलहाल मामले की जांच मे जुटी है।   ठीकरा थाना पुलिस के अनुसार, हादसा गुरुवार-शुक्रवार की मध्य रात्रि की है। यहां बायपास से कुछ ही दूरी पर छोटा लोडिंग वाहन क्रमांक एमपी 39 जी 3959 खराबी आने के कारण सड़क पर बंद हो गया था। कुछ लोग उसे धक्का लगा रहे थे। इसी दौरान तेज रफ्तार अज्ञात ट्रक ने पीछे से लोडिंग वाहन को टक्कर मार दी और लोगों को कुचल दिया। हादसे में सुनील गोविंद निवासी उपला की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। वहीं आठ लोग बुरी तरह घायल हो गए। गंभीर घायल छह लोगों को 108 की सहायता से ठीकरी के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया, जहां प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्पताल बड़वानी रेफर किया गया। यहां उपचार के दौरान दो लोगों की मौत हो गई। हादसे के बाद ट्रक चालक मौके से ट्रक लेकर फरार हो गया। पुलिस ने मर्ग कायम पर मामले को विवेचना में लिया है।   प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, हादसा इतना भीषण था कि टक्कर के बाद मौके पर ही मृत लोगों के शरीर के अवशेष सड़क पर यहां-वहां बिखर गए थे। घटना देर रात हुई। इस वजह से बचाव कार्य में भी लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा। पुलिस के अनुसार मृतकों की पहचान सुनील (35) पुत्र गोविंद निवासी उपला पलसूद, विजय (32) पुत्र शंकर निवासी दानोद और राजेश (25) पुत्र बाबूलाल निवासी रामपुरा पानसेमल के रूप में हुई है। वहीं, आनंद (42) पुत्र सूरज सिंह निवासी जलगुन, जगदीश (22) पुत्र मुन्ना निवासी रामपुरा पानसेमल, कृष्णा (20) पुत्र जयराम निवासी रामपुरा पानसेमल, सुरेश (32) पुत्र मुन्ना निवासी रामपुरा पानसेमल, गबरू (50) पुत्र हरिराम साल निवासी दानोद पानसेमल और पंकज (25) पुत्र सुरेश उम्र निवासी रामपुरा पानसेमल घायल हुए हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  27 January 2023

पेसा एक्ट में दिये अपने अधिकारों के बारे में जाने ग्रामीण : मुख्यमंत्री

मैं भाषण देने नहीं पेसा एक्ट पढ़ाने आया हूँ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि जल, जंगल और ज़मीन से जुड़े फ़ैसले अब भोपाल से नहीं गाँव की चौपाल से किए जाएँगे। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश में पेसा एक्ट किसी गैर जनजातीय समाज के खिलाफ नहीं है। यह जनजातीय भाई-बहनों को और मजबूत करने के लिए है। प्रदेश के 89 जनजातीय बहुल विकासखण्डो में इसे लागू किया गया है। पेसा एक्ट जनजातीय भाई-बहनों को जल, जंगल, जमीन, श्रमिकों के अधिकारों का विशेष ध्यान एवं स्थानीय संस्थाओं, परंपराओं और संस्कृति का संरक्षण एवं संवर्धन का अधिकार प्रदान करता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि योजनाओं के क्रियान्वयन और शासकीय कार्यों में किसी भी सूरत में भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। जनपद सेंधवा के सीईओ को ऐसी ही शिकायत के चलते निलंबित किया जाता है।   मैं देश में समान नागरिक संहिता का पक्षधर   मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि देश में एक समान नागरिक संहिता लागू करने के पक्ष में हूँ। प्रदेश में इसके लिये कमेटी बनाई जा रही है। भारत में अब समय आ गया है कि एक समान नागरिक संहिता लागू होनी चाहिए। एक से ज्यादा शादी क्यों करे कोई। एक देश में दो विधान क्यों चले, एक ही होना चाहिए। समान नागरिक संहिता में एक पत्नी रखने का अधिकार है, तो एक ही पत्नी होनी चाहिए।   मुख्यमंत्री  चौहान आज विकासखण्ड सेंधवा के ग्राम चाचरिया में पेसा एक्ट जागरूकता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि आज मैं भाषण देने नहीं, पेसा एक्ट पढ़ाने आया हूँ। जिन विकासखण्डों में पेसा एक्ट लागू किया गया है, वहाँ के लोगों को इसके प्रावधान और अपने अधिकारों की जानकारी होना जरूरी है। एक्ट के प्रावधानों को लागू करने के लिये ग्राम सभाओं का गठन होगा। सभी ग्राम सभाओं को अधिकार सम्पन्न बनाया जाएगा। ग्राम सभाएँ सामाजिक समरसता के साथ बने, यह हम सबके प्रयास होना चाहिए।   मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि सरकार भी बिना ग्राम सभा की मर्ज़ी के सीधे ज़मीन नहीं ले सकेगी। धोखाधड़ी कर जमीन हड़पने और अपने नाम करवाने वालों को बख्शा नहीं जाएगा। पेसा एक्ट के चलते अब कोई छल, कपट और बल पूर्वक किसी की जमीन हड़प नहीं सकेगा। यदि कोई ऐसा करता है तो ग्राम सभा को हस्तक्षेप कर उसे वापस करवाने का भी अधिकार होगा। उन्होंने कहा कि अधिसूचित क्षेत्र में रेत, मिट्टी, पत्थर या कोई अन्य खदान का पट्टा बिना ग्राम सभा की अनुमति के सरकार नहीं दे सकेगी।   मुख्यमंत्री ने लगाई खाटला पंचायत   मुख्यमंत्री चौहान ने ग्राम चाचरिया में पेसा एक्ट जागरूकता सम्मेलन के दौरान खाटला पंचायत में क्षेत्र के पटेल, पुजारा, सरपंच, उप सरपंच, पंच एवं ग्रामीणों के साथ बैठ कर पेसा एक्ट की जानकारी दी। इस दौरान जनजातीय समुदाय ने राष्ट्रपति एवं मुख्यमंत्री के नाम धन्यवाद प्रस्ताव भी पारित किया।   मुख्यमंत्री ने बताया कि गौण वन संपदा जैसे अचार की गुठली, महुए का फूल, महुए की गुल्ली, हर्रा, बहेड़ा, बाँस, आंवला, तेन्दूपत्ता आदि को बेचने, बीनने और इनके मूल्य निर्धारण का अधिकार भी अब ग्राम सभा के पास होगा। ग्राम सभा इसके लिए अपना प्रस्ताव बना कर 15 दिसम्बर तक वन विभाग को भेज सकती है। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि ग्राम सभा, अमृत सरोवर और तालाबों का प्रबंधन करेगी। तालाबों में सिंघाड़ा उगाने और मछली पालन और मत्स्याखेट की सहमति ग्राम सभा देगी।   मुख्यमंत्री चौहान ने पेसा एक्ट में श्रमिकों के अधिकारों की जानकारी देते हुए बताया कि अब ग्राम के श्रमिक किसी अन्य राज्य या अन्य जिले में मजदूरी करने ठेकेदार या किसी भी व्यक्ति के माध्यम से जाते हैं तो उसकी जानकारी ग्राम सभा को देनी होगी। इससे बाहर मजदूरी करने गये मजदूर की जानकारी ग्राम सभा के पास होगी, जिससे हमारे किसी भाई को कोई दिक्कत हो तो ग्राम सभा उसकी मदद कर पाए।   मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रत्येक गाँव में शांति एवं विवाद निवारण समिति का गठन किया जायेगा। यह समिति स्थानीय छोटे-मोटे विवादों का गाँव में ही निपटारा करेगी, जिससे ग्रामीणों को अनावश्यक पुलिस थानों के चक्कर न लगाने पड़े। मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि गाँव के किस पात्र व्यक्ति को शासन की कौन सी योजना का लाभ मिलना चाहिए यह भी ग्राम सभा ही तय करेगी। स्कूल, स्वास्थ्य केन्द्र, आँगनवाड़ी केन्द्र, आश्रम, छात्रावास आदि के व्यवस्थित संचालन के लिए मॉनिटरिंग का अधिकार भी ग्राम सभा को होगा।   मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि गाँव में नई दारू दुकान खुले या नहीं, इसका फैसला ग्राम सभा करेगी। यदि दारू की दुकान, अस्पताल, स्कूल, धार्मिक स्थल के पास है तो ग्राम सभा उसे बंद करने अथवा दूसरी जगह ले जाने की अनुशंसा कर सकेगी। ग्राम सभा किसी दिन को ड्राय-डे घोषित करने के लिये कलेक्टर को अनुशंसा कर सकेगी। मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि कोई निजी साहूकार, ब्याज देने वाला व्यक्ति लायसेंस लेकर और सरकार द्वारा तय ब्याज दर पर ही ग्रामीणों को ऋण दे सकेगा। अवैध रूप से दिये गये ऋण शून्य हो जायेंगे।   टंटया मामा के बलिदान स्थली पर एकत्र होंगी जागरूकता यात्राएँ   मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि गत 15 नवंबर को प्रदेश में पेसा एक्ट लागू हो चुका है। एक्ट के प्रावधानों का प्रचार-प्रसार करने प्रदेश में जागरूकता यात्राएँ निकाली जा रही हैं, जो 4 दिसम्बर को टंटया मामा के बलिदान दिवस पर इंदौर में एकत्र होंगी। यहाँ उनकी प्रतिमा का अनावरण और विशाल सम्मेलन भी होगा।   बारेली बोली में पुस्तक और गीतों की सीडी का विमोचन   मुख्यमंत्री चौहान ने पेसा एक्ट जागरूकता के लिये जिला प्रशासन द्वारा पेसा एक्ट के नियमों की बारेली बोली में अनुवादित किताब एवं बारेली बोली में गाये गए गीतों की सीडी का विमोचन भी किया। कार्यक्रम में जनजातीय संस्कृति पर केन्द्रित लोक नृत्य एवं गीतों की प्रस्तुति दी गई। शुभारंभ कन्या-पूजन के साथ हुआ। मुख्यमंत्री सहित अतिथियों ने भगवान बिरसा मुंडा, खाज्या नायक, भीमा नायक, टंट्या मामा की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर जनजातीय नायकों को नमन किया। पेसा एक्ट किसी समाज के खिलाफ नहीं सामाजिक समरसता के साथ गठित हो ग्राम सभाएँ सेंधवा जनपद के सीईओ को किया निलंबित मुख्यमंत्री, बड़वानी जिले के चाचरिया पाटी की ग्राम सभा में हुए शामिल पढ़ाया पेसा एक्ट का पाठ और दिलाया संकल्प

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 December 2022

barwani, Pickup vehicle,full of devotees, two killed

बड़वानी। जिले के नागलवाड़ी थाना क्षेत्र अंतर्गत निमाड़ क्षेत्र के प्रसिद्ध नागतीर्थ भीलटदेव संस्थान मंदिर की पहाड़ी की चढ़ाई पर गणेश घाट पर शनिवार दोपहर बड़ा हादसा हो गया। यहां श्रद्धालुओं से भरा पिकअप वाहन चढ़ाई चढ़ते समय कच्चे रास्ते की ढलान संतुलन बिगड़ने से रिवर्स आ गया। रिवर्स होने के बाद वाहन करीब 50 फीट गहरी खाई में जा गिरा। इस हादसे में दो लोगों की मौत हो गई, जबकि 22 लोग घायल बताए जा रहे हैं।   नागलवाड़ी थाना प्रभारी एसके रघुवंशी ने बताया कि सभी दर्शनार्थी राजपुर के समीप भींगारा गांव से लोडिंग पिकअप वाहन में सवार होकर मन्नत उतारने के लिए भीलटदेव मंदिर जा रहे थे। वाहन में लगभग 30 महिला, पुरुष व बच्चे सवार थे। घाट चढाई करते समय पिकअप वाहन क्रमांक एमपी 69 जी 0214 ढ़लान पर लुढ़कते हुए लगभग 50 फीट गहरी खाई में जा गिरा। दुर्घटना में एक बालिका और एक बुजुर्ग महिला की मौत हो गई। वहीं 22 लोग घायल हो गए। घायलों को आसपास के ग्रामीणों ने खाई में से निकाला और स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया।   उन्होंने बताया कि घायलों का प्राथमिक उपचार नागलवाड़ी स्वास्थ्य केंद पर किया गया। इनमें से 17 लोगों को जिला चिकित्सालय बड़वानी रेफर किया गया। पुलिस ने प्रकरण दर्ज किया है और मामले की जांच की जा रही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  9 April 2022

 Playful Beating

झाडू बाजार में मजनू की चप्पल कुटाई   बड़वानी में रोज रोज की छेड़छाड़ से परेशान हो कर कुछ लड़कियों ने अच्छे से एक मनचले को सबक सिखाया और उसकी चप्पल से पिटाई की |  पिछले कुछ दिनों से कोचिंग आने-जाने के दौरान ये युवक लड़कियों को परेशान कर रहा था  |  पिछले कु छ दिनों से कोचिंग आने-जाने के दौरान युवतियों को परेशान कर रहे एक मनचले की सरेराह पिटाई हो गई  | लड़कियों ने  मनचले युवक को चप्पलों से पीटा | |  हालांकि मामला पुलिस तक  नहीं पहुंचा  | जानकारी अनुसार ग्रामीण क्षेत्र की निवासी  लड़कियां  एमजी रोड के समीप झाडू बाजार स्थित कोचिंग क्लास में पढ़ने के लिए आती हैं |  पिछले कुछ दिनों से एक युवक उनके साथ छेड़छाड़ कर रहा था  |  परेशान लड़कियों ने उसे सबक सिखाने का मन बनाया और इस बार उसने जैसे ही छेड़छाड़ की  |  इस से  गुस्साई लड़कियों  ने मिलकर युवक की चप्पल पिटाई कर दी  | इस दौरान लोगों की खासी भीड़ जमा हो गई  |       

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 January 2020

 ACCIDENT

सभी मृतक है एक ही परिवार के सदस्य   बड़वानी जिले के मंडवाड़ा के पास एक कार और ट्रक ट्राले में जबरदस्त टक्कर में पांच लोगों की दर्दनाक मौत हो गई  |  मारे गए सभी लोग एक ही परिवार के हैं और ये एक विवाह समारोह में भाग लेने जा रहे थे  |  कार में सवार मिर्जा परिवार खरगोन जिले के कसरावद शादी समारोह में शामिल होने जा रहा था |  इसी दौरान उनकी कार पर एक ट्राला चढ़ गया, मौके पर ही पांच लोगों ने दम तोड़ दिया  |   घटना के बाद स्थानीय लोग आक्रोशित हो गए थे  |  वे लगातार यहां तेज गति से जाने वाले भारी वाहनों को लेकर शिकायत कर चुके हैं  | हादसा रविवार सुबह हुआ जब मिर्जा परिवार के लोग शादी समारोह में शामिल होने जा रहे थे  |  वे जैसे ही मंडवाड़ा के पास पहुंचे दूसरी ओर से आ रहे तेज रफ्तार ट्राले ने उन्हें टक्कर मारी और कार के ऊपर चढ़ गया  |  मौके पर ही  कार में बैठे पांच लोगों ने दम तोड़ दिया  | ट्राले के नीचे आने से कार बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई  | रास्ते से गुजर रहे अन्य लोगों ने इस घटना की सूचना पुलिस और एंबुलेंस को दी और अंदर फंसी घायल बच्ची को बाहर निकाला  |  इसके बाद उसे अस्पताल पहुंचाया गया  | क्रेन के जरिए ट्राले को कार के ऊपर से उठाया गया और फिर शवों को बाहर निकाला गया  |                 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 November 2019

 AAG

मंदसौर से बैंगलुरु जा रहा था ट्रक   आगरा -मुंबई राष्ट्रीय राजमार्ग पर लहसुन से भरा ट्रक जलकर ख़ाक हो गया  | बताया जा रहा है  शार्ट सर्किट की वजह से ट्रक में अचानक आग लग गई  |  बीती रात आगरा मुंबई नेशनल हाइवे  पर अचानक एक ट्रक में आग लग गई   |  यह घटना  खुरमपुरा के पास की है   | ट्रक ड्राइवर जब तक कुछ समझ पाता तब तक शार्ट सर्किट की वजह से लगी आग ने विकराल रूप ले लिया था  |  इस ट्रक में  लहसुन भरा था और ट्रक  मंदसौर से  बैंगलुरु जा रहा था  | जब तक ट्रक में लगी आग बुझाने के उपक्रम किये गए तब तक ट्रक पूरी तरह जल चूका था   |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 October 2019

 ATM LOOT

एटीएम तोड़कर भी खाली हाथ लौटा चोर   एक चोर ने पूरी ताकत लगाकर सेंधवा में पुराने एबी रोड पर बने एटीएम को तो तोड़ दिया  |  लेकिन वह कैशबॉक्स तक नहीं पहुँच पाया | अब पुलिस की की नियत से एटीएम में तोड़फोड़ करने वाले शख्स को तलाश रही है  |  सेंधवा के पुराने एबी रोड पर दिनेश गंज के सामने स्थित केनरा बैंक के एटीएम को  तोड़ने का प्रयास किया गया  |  अज्ञात बदमाश ने रात में  एटीएम में घुसकर लोहे की टॉमी से एटीएम को तोड़ने की कोशिश की, लेकिन वह कामयाब नहीं रहा   | लोहे की टॉमी के प्रयोग से एटीएम क्षतिग्रस्त हुआ है  | बैंक प्रबंधक वसामा खान ने बताया कि मामले की सूचना पुलिस और बैंक के उच्च अधिकारियों को दी गई है  |  खान ने बताया कि अज्ञात चोर ने एटीएम को नुकसान पहुंचाया, हालांकि नगदी तक वह नहीं पहुंच पाया  |  नीली जींस सफेद और लाल टीशर्ट पहना बदमाश मुंह पर रुमाल बांधकर एटीएम में घुसा था  |  काफी होशियारी से बदमाश ने एटीएम का शटर धीरे-धीरे बंद किया और खुद अंदर घुस गया  | एटीएम में घुसकर लोहे टॉमी से एटीएम को तोड़ने का प्रयास शुरू किया  |  करीब 20 मिनट से अधिक समय तक बदमाश ने एटीएम को तोड़कर नगदी राशि चोरी करने का प्रयास किया, लेकिन वह सफल नहीं हुआ  |  सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस बैंक में लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है जिसमें अज्ञात बदमाशों से टीम को तोड़ने का प्रयास करता दिख रहा है, पुलिस पुराने संदिग्ध बदमाशों से भी सीसीटीवी में दिख रहे बदमाश का मिलान कर रही है  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 October 2019

 BALA BACHAN JII

सरदार सरोवर का पानी ला रहा है संकट    सरदार सरोवर बाँध का बैक वॉटर मध्यप्रदेश में तबाही का सबब बन सकता है | गृहमंत्री  बाला बच्चन ने इन इलाकों का दौरा किया और बताया इस पानी के कारण भूगर्भीय धमाके हो रहे हैं और लोगों को समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है |   गृहमंत्री ने कहा इन इलाकों में भूकंप के झटके भी लग रहे हैं   मध्यप्रदेश के गृह मंत्री बाला बच्चन अपने विधानसभा क्षेत्र राजपुर  के दौरे पर थे  | वह एक सभा को सम्बोधित कर रहे थे तभी एक जोरदार धमाका हुआ  ... इससे सब कुछ हिल गया  | यह एक भूगर्भीय धमाका था  |  इसके बाद भूकंप के झटके लगे  | इस इलाके में जब से सरदार सरोवर का बेक वॉटर आना शुरू हुआ है  | तब से जमीन के नीचे से भूगर्भीय धमाके हो रहे हैं  | गृह मंत्री बाला बच्चन ने इसकी भयावहता के बारे में लोगों से चर्चा की और देखा की लोग बड़ी मुसीबत की जद में आ रहे हैं  |    बड़वानी जिले के ग्राम भमोरी, साकड, मंदिल के आसपास के ग्रामों का दौरा करते समय गृहमंत्री ने बताया कि ग्रामीणों से बात करतें समय भूकंप के झटके महसूस हो रहे हैं   | इससे पहले बाला बच्चन ने नर्मदा बचाओ आंदोलन की प्रमुख मेधा पाटकर से भी चर्चा की  | बाला बच्चन इस बारे में अपनी विस्तृत रिपोर्ट मुख्यमंत्री कमलनाथ को देंगे और नर्मदा वैली के ताजा हालातों से उन्हें अवगत करवाएंगे  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  29 August 2019

 PRADARSHAN

सरकार और प्रशासन को मृत घोषित कर किया प्रदर्शन     सरकार और प्रशासन को मृत घोषित कर विरोध प्रदर्शन करने का अनोखा मामला सामने आया है   | दरअसल  नर्मदा के सरदार सरोवर  डूब क्षेत्र में आने वाले विस्थापितों की समस्या नहीं सुनी जा रही   | जिसकी वजह से लोगों ने अनोखा विरोध प्रदर्शन कर  सरकार को मृत घोषित किया  | और मुंडन करवाया |  बड़वानी में डूब प्रभावितों ने सरकार और प्रशासन के खिलाफ अनोखा विरोध प्रदर्शन किया है  | नर्मदा के सरदार सरोवर डूब क्षेत्र में हो रही गांवों की हत्या के खिलाफ प्रभावितों ने कारंजा चौराहे पर प्रदर्शन किया   |  सरकार और प्रशासन को मृत घोषित करते  हुए गाँव वालों ने सांकेतिक रूप से विरोध जताया प्रदर्शनकारियों का कहना है की  डूब क्षेत्र में आने से कई गांव उजड़ गए हैं  |   विस्थापियों की समस्या कोई  सुन नहीं रहा  | डूब प्रभावित और विस्थापित लोगों ने सरकार के मृत रवैये को लेकर दुःख जताया   | और कुछ लोगों ने विरोध स्वरुप मुंडन भी कराया  | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 August 2019

 NARMADA RAJGHAT

नर्मदा बचाओ ने शुरू किया सत्याग्रह   बड़वानी में राजघाट का पुल डूबा गया है   इसके बाद  नर्मदा बचाओ आंदोलन ने अनिश्चित कालीन  सत्याग्रह शुरू कर दिया है  इनकी माँगा है कि सरदार सरोवर के गेट खोले जाएँ ताकि लोग इसकी डूब में न आएं   नर्मदा नदी पर बना राजघाट का पुल डूब गया है  यहाँ  जल स्तर 127.500 मीटर पर पहुंच गया है  बड़वानी और उसके आसपास  लगातार बढ़ते नर्मदा के जल स्तर के बीच नर्मदा बचाओ आंदोलन ने राजघाट में सत्याग्रह शुरू कर दिया है  ये सभी सरदार सरोवर बांध के गेट खोलने की मांग कर रहे हैं, बांध के गेट नहीं खुलने तक सत्याग्रह जारी रहेगा   बड़वानी राजघाट में नर्मदा बचाओ आंदोलन का यह आकस्मिक डूब को लेकर सत्याग्रह शुरू हुआ   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  8 August 2019

 ACCIDENT

हादसे में मौके पर ही चार लोगों की मौत   बड़वानी के निवाली में बस और जीप की भीषण टक्कर हुई   जिस मे 4 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई  इस टक्कर में जीप का एक हिस्सा पूरी तरह से उड़ गया  बताया जा रहा है बस की तेज रफ़्तार के कारण यह हादसा हुआ   निवाली थाना क्षेत्र के खड़ीखाम घाट पर एक  बस और जीप की टक्कर में चार लोगों की मौत हो गई  हादसा इतना दर्दनाक था कि जीप का एक हिस्सा बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया और उसमें  एक साइड बैठे लोगों ने टक्कर के बाद मौके पर ही दम तोड़ दिया  घटना में घायलों को निवाली से प्राथमिक उपचार के बाद बड़वानी जिला अस्पताल रेफर किया गया है  मृतकों के नाम विजय  पाटीदार, सुरेश रूपसिंह भिलाला, किशोर ड्राइवरऔर नारायण गंगाराम पाटीदार हैं    ये सभी धार के निवासी हैं  ये कुक्षी से तोरणमाल जा रहे थे   हादसे के बाद वहां से गुजर रहे लोगों ने पुलिस और एंबुलेंस को सूचना दी, जिसके बाद घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया  जीप चला रहे ड्राइवर के शव को बड़ी मशक्कत के बाद बाहर निकाला जा सका  घायल भी घबराए हुए थे, कुछ समय तो उन्हें होश ही नहीं था कि उनके साथ इतना बड़ा हादसा हो गया है                

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  4 August 2019

 JAGUAR

तेंदुए ने किया ग्रामीण पर हमला    बड़वानी के पानसेमल इलाके में एक तेंदुए ने ग्रामीण पर हमला कर के उसे घायल कर दिया  यह तेंदुआ इससे पहले  एक बच्ची  की जान ले चुका है और   कई ग्रामीणों पर हमला कर चुका है  इलाके में इस तेंदुए का आतंक है     पानसेमल इलाके में तेंदुए का आतंक जारी है  अब ग्राम जूनापानी में तेंदुए ने एक ग्रामीण को घायल कर दिया  इस हमले में तेंदुए ने ग्रामीण को सिर में नाखून गढ़ा दिए  घायल व्यक्ति को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया  इसके पहले यह तेंदुआ एक किशोरी की जान ले चुका है और एक महिला और एक व्यक्ति को गंभीर रूप से घायल कर चुका है  इस मामले में वन विभाग ने भोपाल मुख्यालय से तेंदुए को आदमखोर घोषित कर गोली मारने की अनुमति मांगी है    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 July 2019

kamla jamre

  एक शिक्षक होना महज नौकरी नहीं है, बल्कि एक महत्वपूर्ण सामाजिक दायित्व है। देश में आने वाली पीढ़ी कैसी होगी, यह एक शिक्षक की सोच पर ही निर्भर करता है। प्राथमिक स्कूल के शिक्षक की जवाबदारी तो और अधिक महत्वपूर्ण होती है। इसी भावना के साथ बड़वानी जिले में राजपुर स्थित प्राथमिक विद्यालय क्रमांक-4 की शिक्षिका सुश्री कमला जमरे ने बच्चों को शिक्षित करने के लिये अनुकरणीय उदाहरण प्रस्तुत किया है।  राजपुर प्राथमिक विद्यालय क्रमांक-4 की शिक्षिका सुश्री कमला जमरे ने स्वयं के खर्च से स्मार्ट क्लॉस के लिये सुविधायें जुटाई हैं। उन्होंने एलसीडी टी.व्ही., शुद्ध पेयजल के लिये आर.ओ. मशीन, रेडियो और म्यूजिक सिस्टम स्कूल के लिये खरीदे हैं। शिक्षिका सुश्री कमला ने विद्यालय परिसर में जन-भागीदारी से बगीचा भी तैयार करवाया है, जहाँ बच्चों के लिये झूला और फिसलपट्टी लगवायी है। इसी शाला में पदस्थ एक अन्य शिक्षिका सुश्री राखी सोनी ने बच्चों को स्वच्छ पर्यावरण में रखने, पढ़ाने की जिम्मेदारी का उत्कृष्ट उदाहरण पेश किया है। जन शिक्षक श्री नवीन गुप्ता ने बताया कि क्षेत्र की अन्य दो प्राथमिक शालाओं में भी एलसीडी टी.व्ही. के माध्यम से बच्चों को पढ़ाने की पहल शुरू की गई है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 September 2018

सरदार सरोवर परियोजना

  बड़वानी सरदार सरोवर परियोजना के डूब क्षेत्र प्रभावितों के लिए दिल्ली से राहत भरी खबर है। सोमवार को पुर्नवास को लेकर सुप्रीम कोर्ट में हुई सुनवाई में मुख्य न्यायधीश ने अंतरिम फैसला सुनाते हुए 8 अगस्त तक डूब क्षेत्र में यथास्थिति रखने के निर्देश दिए है। नर्मदा बचाओ आंदोलन की मेधा पाटकर ने जानकारी देते हुए बताया कि मामले में विस्तृत सुनवाई 8 अगस्त को होगी। जरूरत पड़ने पर माननीय न्यायालय पुनर्वास की तारीख और आगे बढ़ा सकता है। इसके पहले सुप्रीम कोर्ट द्वारा सरदार सरोवर परियोजना के डूब क्षेत्र में आज तक सारे गांवों को खाली करना था। पूर्ण पुनर्वास के लिए तय की गई डेडलाइन का सोमवार अंतिम दिन था। जिसके बाद से ही नर्मदा बचाओ आंदोलन, उनसे जुड़े डूब प्रभावितों ने तैयारियां तेज कर दी थी। रविवार को भी डूब प्रभावितों ने बड़वानी में कफन आंदोलन किया था और धार जिले के चिखल्दा में जल सत्याग्रह। चिखल्दा में ही नर्मदा बचाओ आंदोलन नेत्री मेधा पाटकर सहित 12 लोगों का अनिश्चितकालीन अनशन सोमवार को भी जारी रहा है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  31 July 2017

kisan hadtal

किसान हड़ताल का असर ,दूध-सब्जी की सप्लाई रुकी  मध्यप्रदेश में किसानों की हड़ताल के तीसरे दिन शनिवार को एक बार फिर आम लोगों को दूध और सब्जी की किल्लत का सामना करना पड़ा। कई इलाकों में पुलिस की सुरक्षा में दूध और सब्जी की दुकानें खुलीं, लेकिन इन्हें बहुत ज्यादा कीमत पर बेचा गया। उधर कई जगह आंदोलन कर रहे किसानों ने दूध और सब्जी की सप्लाई रोकने के लिए निजी वाहनों और बसों में भी चेकिंग शुरू कर दी है। भारतीय किसान संघ भी अब इस हड़ताल में शामिल होगा। किसान के आंदोलन पर सरकार हरकत में आ गई है। शनिवार दोपहर मुख्य सचिव बसंत प्रताप सिंह ने इंदौर, उज्जैन और भोपाल संभाग के अधिकारियों से वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए चर्चा की। इस दौरान तीनों संभागों के आईजी, कलेक्टर, एसपी और दुग्ध संघ के अधिकारी भी उपस्थित थे। देवास के पास कन्नौद में खेत से 2 लीटर दूध लेकर घर आ रहे किसान को आंदोलनकारियों ने सुबह 8.15 बजे सरकारी अस्पताल के सामने रोक लिया, उन्होंने पहले दूध बहाया इसके बाद किसान के साथ मारपीट की। मामले में रिपोर्ट लिखाई गई। राजोदा में कैलोद चौराहे पर निजी वाहनों को रोक कर किसानों ने चेकिंग की, सुबह से खुली दूध डेयरियां भी बंद करवा दी गईं। खंडवा में बसों की चेकिंग में मिली सब्जी किसानों ने सड़क पर फेंकी। महाराष्ट्र से आया दूध का वाहन भी रोका, जिसके बाद ड्राइवर वाहन को थाने ले गया। वहां पुलिस के संरक्षण में दूध ज्यादा कीमत में बिका। शाजापुर में सांची दूध की सप्लाई होने से स्थिति कुछ सामान्य हुई, लेकिन खुला दूध अब भी नहीं मिला। यहां सब्जी की सप्लाई बंद रही। शाजापुर में करीब बड़ी संख्या में किसान सड़क पर उतर आए और सरकार विरोधी नारे लगाते हुए जमकर प्रदर्शन किया। मंदसौर में 300 लीटर दूध एक कार से जब्त हुआ, जिसके बाद जिला अस्पताल में इसे बांट दिया गया। कई जगह किसानों का विरोध जारी रहा उन्होंने रोक-रोकर वाहनों की चेकिंग की। दूध और सब्जी की किल्लत के चलते कई जगह आम लोगों ने किसानों का विरोध किया। लोगों का कहना है कि यह तरीका बिल्कुल गलत है। झाबुआ और आलीराजपुर में हड़ताल का कोई असर नहीं दिखा, यहां सामान्य रूप से मंडी खुली और दूध की सप्लाई भी सामान्य रही। हालांकि मंड़ि‍यों में सब्जी की आवक पहले की अपेक्षा कम रही। खरगोन सब्जी मंडी में हालत सामान्य रहे लेकिन सब्जियों के भाव आसमान पर रहे। इंदौर और धार में किसानों आंदोलन के चलते व्यापारी खरगोन नहीं पहुंचे। यहां दूध की सप्लाई भी सामान्य रही। रविवार को सब्जी मंडी बंद रह सकती है। जिले के भीकनगांव में सब्जी का व्यापार जारी। यहां सांची के दूध की सप्लाई भी हुई, गड़बड़ी की आशंका के चलते अमूल का दूध नहीं मंगवाया गया। जानकारी के मुता‍बिक सांची का 10 हजार लीटर दूध यहां सप्लाई हुआ। बड़वानी में किसान आंदोलन का असर नहीं रहा।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  3 June 2017

नर्मदा-पूजन

बड़वानी जिले में करामतपुरा से प्रवेश करने वाली नमामि देवी नर्मदे सेवा यात्रा आज अलीराजपुर के लिए रवाना हुई। इसके पहले सेवा यात्रा के श्रद्धालुओं एवं समाजसेवियों ने नर्मदा-कलश एवं ध्वज पताका दण्ड के साथ राजघाट पर माँ नर्मदा का पूजा-अर्चन किया। राजघाट पर श्रद्धालुओं को शाल एवं श्रीफल भेंट किया गया। आरती के बाद सेवा यात्रा के जत्थे को गणपुर चौकी तक रैली के रूप में विदा किया गया। रैली में जिला यात्रा प्रभारी श्री भूपेन्द्र आर्य, कलेक्टर श्री तेजस्वी एस. नायक, पुलिस अधीक्षक श्री प्रशांत खरे, समाजसेवी सर्वश्री ओम खण्डेलवाल, प्रेमसिंह पटेल, भगवती प्रसाद शिंदे और भागीरथ कुशवाह आदि शामिल थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 February 2017

बड़वानी नर्मदा सेवा यात्रा

 'नमामि देवी नर्मदे''-सेवा यात्रा के 69वें दिन बड़वानी जिले में राजस्व, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री श्री उमाशंकर गुप्ता शामिल हुए। श्री गुप्ता शुक्रवार की सुबह ग्राम पिपरी पहुँचकर नर्मदा कलश एवं ध्वज पताका दण्ड की पूजा-अर्चना कर सेवा यात्रियों के साथ यात्रा पर रवाना हुए। श्री गुप्ता ने स्थानीय जन-प्रतिनिधियो, प्रशासनिक अधिकारियों, सेवा यात्रियों, ग्रामीणजनों के साथ पिपरी, बगूद की यात्रा कर श्रद्धालुओं को नर्मदा-संरक्षण एवं पर्यावरण सुधारने के लिए पौध-रोपण करने और मद्य-निषेध में सहयोग करने की शपथ दिलवाई। बागवानी बने बडवानी की पहचान यात्रा के दौरान ग्रामों एवं मार्गों में सेवा यात्रियों के साथ नर्मदा जल कलश एवं ध्वज पताका दण्ड का अभूतपूर्व स्वागत हुआ। ग्रमीणों ने स्थानीय स्तर पर उत्पादित फल और गन्ने का रस पिलाकर यात्रियों का स्वागत किया। राजस्व मंत्री ने कहा कि नर्मदा किनारे बसे इन ग्रामों के किसान, नर्मदा की एक किलोमीटर की चौड़ाई की पट्टी में इतना सघन फलों के पौधों का रोपण किया जायेगा कि आगे से लोग बड़वानी को बागवानी जिले के रूप में जानेंगे। इससे जहाँ किसानों की सम्पन्नता और बढ़ेगी वही नर्मदा माँ के किनारे जल-जंगल-जमीन का भी संरक्षण हो पायेगा। राजस्व मंत्री ने किया फलों के पौधों का रोपण सेवा यात्रा के दौरान राजस्व मंत्री श्री गुप्ता ने ग्राम पिपरी एवं नर्मदा परिक्रमा पथ के किनारे के कृषको के यहाँ फलों के पौधों का रोपण अतिथियो एवं सेवा यात्रियों के साथ मिलकर किया। उन्होंने नारियल और अमरूद के पौधों का रोपण किया। नर्मदा परिक्रमा में शामिल हुई महिला आयोग की अध्यक्ष भी राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष श्रीमती लता वानखेड़े और सदस्य श्रीमती सूर्या चौहान भी शुक्रवार को ग्राम बगूद पहुँचकर माँ नर्मदा सेवा यात्रा में सम्मिलित हुई। यात्रा में सांसद श्री सुभाष पटेल और जन अभियान परिषद के उपाध्यक्ष श्री रणछोड़ पटेल सहित बड़ी संख्या में ग्राम के वरिष्ठ और युवा उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  17 February 2017

महाआरती

बड़वानी जिले के ग्राम दतवाड़ा में आज सुबह महाआरती में बड़ी संख्या में स्थानीय नागरिक शामिल हुए। सेवा यात्रा के कलश एवं ध्वज पर रहवासियों ने पुष्प-वर्षा के साथ यात्रा शुरू की। यात्रा में शामिल नागरिकों ने प्रदेश की सुख, समृद्धि, वैभव की कामना माँ नर्मदा से की। सेवा यात्रा में शामिल संतों ने नर्मदा को स्वच्छ बनाने के लिए पूजन सामग्री विसर्जित नहीं करने का आव्हान नागरिकों से किया। गाँव के बुजुर्ग जहाँ नर्मदा के विशाल स्वरूप और हरे-भरे पेड़ों की जानकारी दे रहे थे, वहीं नवयुवा नर्मदा के किनारे होने वाले वृक्षारोपण से गाँव में आने वाली खुशहाली को लेकर उत्साहित दिख रहे थे। ग्राम दतवाड़ा से शुरू यात्रा को जगह-जगह यात्रा पथ पर स्थानीय नागरिकों का भरपूर समर्थन मिला। स्थानीय नागरिक सेवा यात्रा में बढ़-चढ़कर शामिल होने के साथ ही सांस्कृतिक प्रस्तुति, रांगोली, वंदनवार एवं भजन-कीर्तन के साथ निरन्तर पुष्प-वर्षा के साथ स्वागत किया जा रहा है। नर्मदा सेवा यात्रा आज 68 वें दिन दतवाड़ा से प्रारम्भ होकर गोलाटा, छोटा बड़दा, आंवली, सेगाँव होते हुए ग्राम पीपरी पहुँची जहाँ यात्रा का भव्य स्वागत किया गया। दूर-दूर से आये साधु-संतों ने यहाँ माँ नर्मदा की उत्साह से महाआरती की। सेवा यात्रा अगले पड़ाव के लिए ग्राम पीपरी में रात्रि विश्राम करेगी।  ''नमामि देवि नर्मदे''-सेवा यात्रा अपने मूल उद्देश्यों में न केवल सफल हो रही, बल्कि यह यात्रा सर्वधर्म समभाव का प्रतीक बन गयी है। यात्रा शुरू होने के 68वें दिन आज बड़वानी जिले के ग्राम गोलाटा की 7 वर्षीय बालिका कुमारी नाजनीन खान ने अपने सिर पर कलश लेकर सेवा यात्रा के साथ चलने की इच्छा पूरी की। इससे सिद्ध होता है कि माँ नर्मदा की सेवा एवं उसे सदा निर्मल एवं गतिमान बनाये रखने का कार्य धर्म, वर्ग, जाति से उपर है। बड़वानी जिले के ग्राम गोलाटा में ''नमामि देवी नर्मदे''-सेवा यात्रा के साथ चल रहे श्रद्धालु उस वक्त आश्चर्य में पड़ गये जब उन्होंने अपने स्वागत एवं सत्कार के लिये ग्रामीणों द्वारा दिये गये फल एवं मिठाई को एक छोटी बच्ची को देकर चुप करवाने का प्रयास किया और बच्ची ने उसे लेने से इंकार कर दिया। कारण जानने पर ज्ञात हुआ कि बच्ची का नाम नाजनीन खान है और वह अपने घर से कलश लेकर श्रद्धालुओ के स्वागत के लिए आई थी। किसी अन्य बालिका ने उसका कलश लेकर अपने सिर पर रख लिया, जिसके कारण वह बिना कलश के हो गई। यात्रा के साथ चल रहे क्षेत्र के सामाजिक कार्यकर्ता श्री सुखदेव यादव ने तत्काल एक कलश बुलाकर कुमारी नाजनीन खान को स-सम्मान दिया। नाजनीन खुशी-खुशी सेवा यात्रा में कलश लेकर शामिल हुईं। यात्रा जब ग्राम गोलाटा पहुँची तो नवाचार देखने को मिला। साधारणतः अभी तक ग्रामों में नर्मदा जल कलश को ग्रामवासी अपने सिर पर धारण कर ले जाते थे। आज यात्रा ग्राम गोलाटा पहुँची तो नर्मदा जल कलश को पालकी में रखकर चारों तरफ से चार अलग-अलग ग्रामवासियों ने कलश को उठाकर प्रसन्नता और आनंद का अनुभव किया। यात्रा जब जिले के ग्राम छोटा बड़दा पहुँची तो यात्रा का स्वागत महिलाओं-पुरूषों-बच्चों ने पूरे जोश और मन से किया। यात्रा के प्रारंभ में स्कूली बच्चों में भी जोश दिखाई दिया। ग्राम के स्कूली बच्चों ने एक जैसी यूनिफार्म पहनकर यात्रा की स्वागत रैली निकाली। यात्रा के दौरान जगह-जगह पेड़ों पर महिलाओं द्वारा सूखी लौकी को सजा कर लटकाया, जो दूर से देखने पर एक लालटेन की भांति दिख रही थी। यात्रा के स्वागत द्वार को केले और आम के पत्तों, सजी हुई सूखी लौकी एवं भुट्टों के डूंड को रंग कर तोरण बनाया गया था, जो देखने में काफी आकर्षक और पर्यावरण संरक्षित दिख रहा था। गाँव की महिलाओं ने घरों की दीवारों पर गुलाबी रंग से पुताई कर उस पर सफेद रंग से माण्डना बनाकर आकर्षक बनाया। इस दौरान ग्राम की आँगनवाड़ी कार्यकर्ताओं ने पूरक पोषण आहार से विभिन्न प्रकार के व्यंजन बनाकर स्वल्पाहार करवाया। ग्राम छोटा बड़दा की छोटी-छोटी बालिकाओं ने बड़ा काम कर दिखाया, जब उन्होंने प्रस्तुत नुक्कड़ नाटक और गीत-संगीत से कैशलेस, स्वच्छता, पर्यावरण सहेजने, खुले में शौच नहीं करने, नदियों को प्रदूषण मुक्त करने का संदेश दिया। बच्चियों की तुतलाहट भरी इस संदेश युक्त प्रस्तुति पर संवाद स्थल पर उपस्थित बड़े भी देर तक तालियाँ बजाते रहे। बालिकाओं ने प्रण लिया कि यात्रा के संदेश को बाद में भी मानेंगे एवं दूसरों को भी ऐसा करने के लिये प्रोत्साहित करेंगे। यात्रा ग्राम दत्तवाड़ा से निकलकर जब ग्राम गोलाटा, छोटा बड़दा और आंवली पहुँची तो प्रदेश यात्रा प्रभारी श्री विष्णुदत्त शर्मा, सांसद श्री सुभाष पटेल, जिले के यात्रा प्रभारी श्री भूपेन्द्र आर्य ने ग्रामीणों से जन-संवाद कर उन्हें नर्मदा के संरक्षण, प्रदूषण-मुक्त करवाने तथा पौघ-रोपण का संकल्प दिलवाया।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  16 February 2017

नर्मदा नदी

31 मार्च के बाद शराब की दुकानें बंद होंगी अवैध उत्खनन करने वाले वाहन राजसात होंगे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि नर्मदा नदी की 100 किलोमीटर की परिधि में जल-परिवहन शुरू किया जायेगा। उन्होंने कहा कि 31 मार्च के बाद नर्मदा तट के 5 किलोमीटर परिधि की शराब की दुकानें बंद कर दी जायेंगी। श्री चौहान ने यह भी कहा कि अब रेत का अवैध उत्खनन करने पर पकड़े गये वाहनों को राजसात कर लिया जायेगा। श्री चौहान आज 'नमामि देवि नर्मदे''-सेवा यात्रा के दौरान बड़वानी जिले के ग्राम मोहीपुरा के नर्मदा तट पर जन-संवाद को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने सपत्नीक यात्रा की अगवानी की और यात्रियों का स्वागत किया। छत्तीसगढ़ की बोहरा समाज की बालिका और समाज बंधु हुए यात्रा में शामिल छत्तीसगढ़ से आयी सुश्री नेहा परवीन का मुख्यमंत्री ने जन-संवाद में सम्मान किया। बोहरा समाज की यह बालिका अपने समाज के लोगों के साथ ध्वज और कलश लेकर नर्मदा तट की पद-यात्रा कर रही है। कार्यक्रम में पशुपालन एवं पर्यावरण मंत्री श्री अंतर सिंह आर्य, सांसद श्री सुभाष पटेल, अनुसूचित-जाति आयोग के अध्यक्ष एवं यात्रा प्रभारी श्री भूपेन्द्र आर्य, महाराष्ट्र से आये जल-विशेषज्ञ श्री सुरेश खातापुरकर, नेपाल के डॉ. सुबोध शर्मा और विधायक श्री देवी सिंह पटेल सहित नागरिक और जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि नर्मदा नदी भारत की हृदय-रेखा है। नर्मदा संस्कृति की जीवन-धारा है। इस नदी के तट पर अनेक सभ्यता और संस्कृति ने जन्म लिया है। अमरकंटक से शुरू होकर अरब सागर तक 1000 किलोमीटर से अधिक का सफर माँ नर्मदा करती हैं। इसकी 41 सहायक नदियों में से 39 नदियाँ मध्यप्रदेश की सीमा में हैं। प्रदेश की लगभग 30 प्रतिशत आबादी नदी के तट पर बसती है। उन्होंने कहा कि इसलिये हम सबका दायित्व है कि हम माँ नर्मदा का संरक्षण करें, उसका विस्तार कर प्रदूषण से मुक्त करें और नर्मदा की विशाल विरासत को आने वाली पीढ़ी के लिये सहेज कर रखें। मुख्यमंत्री ने कहा कि नदी के संरक्षण और स्वच्छता के लिये चल रही यात्रा अब जन-आंदोलन बन गयी है। लोगों को वृक्षों का महत्व समझाने की कोशिशें सफल हो रही हैं। लोग इस बात को भी समझ रहे हैं कि खुले में शौच नहीं करना है और 'बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ'' को अपनाना है। श्री चौहान ने कहा कि नदी के दोनों तट पर बड़ी संख्या में हो रहे पौध-रोपण से न सिर्फ शुद्ध वातावरण मिलेगा, बल्कि अतिरिक्त आमदनी का साधन भी उपलब्ध होगा। उन्होंने कहा कि यात्रा के दौरान जन-संवाद कार्यक्रम में नशामुक्ति का संकल्प दिलवाने से लोगों के बीच इसका व्यापक असर हो रहा है। प्लास्टिक की थैलियों पर पाबंदी लगाने का भी निर्णय लिया गया है। श्री चौहान ने कहा कि तट के एक किलोमीटर दूरी के गाँव में किसानों की जमीन पर पौध-रोपण के लिये 20 हजार रुपये प्रति हेक्टेयर तीन वर्ष तक अनुदान और लागत में 40 प्रतिशत की सहायता दी जायेगी। उन्होंने कहा कि मिल्क-रूट की तरह फ्रूट-रूट भी बनाये जायेंगे। इसके लिये सरकार द्वारा सबसिडी दी जायेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि बड़वानी जिले के हर किसान के खेत को नर्मदा के जरिये नहर के माध्यम से जल पहुँचाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि आगे चलकर बड़वानी जिला बागवानी जिला बन जायेगा। कार्यक्रम के पूर्व मुख्यमंत्री ग्राम मोहीपुरा में यात्रा में शामिल हुए और उन्होंने माँ नर्मदा के तट पर महा-आरती भी की। खनिज विकास निगम के अध्यक्ष श्री शिव चौबे ने भी संबोधित किया। यात्रा आज बड़वानी जिले के ग्राम लोहारा से शुरू हुई और किरमोही, केशवपुरा आदि गाँव से होती हुई मोहीपुरा पहुँची। यात्रा का नागरिकों ने पुष्प-वर्षा कर स्वागत किया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  15 February 2017

माँ नर्मदा

'नमामि देवि नर्मदे''-सेवा यात्रा में नर्मदा भक्तों का कारवाँ आज सुबह बड़वानी जिले के ब्राह्मणगाँव में माँ नर्मदा की आरती एवं पौध-रोपण के बाद आगे बढ़ा। नर्मदा आरती के बाद सेवा यात्रियों का यह जत्था विश्वनाथखेड़ा के लिये रवाना हुआ। इस दौरान मार्ग में जगह-जगह एवं विश्वानाथखेड़ा, चेनपुरा, चिचली पहुँचने पर जत्थे का स्वागत परम्परागत तरीके से गाँव की महिलाओ द्वारा आरती एवं तिलक लगाकर किया गया। ग्रामवासियों ने सेवा भक्तों की आवभगत भी परम्परागत तरीके से की। सांसद श्री सुभाष पटेल, अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष एवं जिला यात्रा प्रभारी श्री भूपेन्द्र आर्य, जन-अभियान परिषद के जबलपुर संभाग एवं सम्पूर्ण यात्रा प्रभारी श्री शिवप्रसाद मालवीय, पूर्व विधायक श्री देवीसिंह पटेल, सामाजिक कार्यकर्ता श्री ओम खण्डेलवाल, श्री सुखदेव यादव, क्षेत्र के जन-प्रतिनिधि और प्रशासनिक अधिकारी उपस्थित थे। परिक्रमावासी भी जमकर थिरके यात्रा में यात्रा के पहुँचने पर ढोल-ढमाके के साथ जोरदार स्वागत किया गया। परिक्रमावासी, गाँव के स्त्री-पुरूष, बच्चे भी अपने कदमों को रोक न सके और सभी ने यात्रा का स्वागत नाच कर तथा मंगल गीत गाकर किया। चेनपुरा में चाय-नाश्ते के साथ हुआ संवाद नर्मदा भक्तों का कारवाँ विश्वनाथखेड़ा होता हुआ चेनपुरा ग्राम में पहुँचा। यहाँ पर महिला एवं पुरूषों ने प्रवेश-द्वार पर सेवादारों का स्वागत आरती एंव तिलक लगाकर किया। रथ पर चल रहे नर्मदा जल कलश को महिलाओं ने सिर पर रखकर तथा पुरूषों ने ध्वज पताका दण्ड को हाथों में उठाकर ग्राम में भ्रमण कर घर-घर नर्मदा को संरक्षित, प्रदूषण मुक्त बनाये रखने और पर्यावरण सहेजने का संदेश पहुँचाया। ग्रामीणों ने नर्मदा सेवादारों को अपने हाथों बनाया हुआ नाश्ता, कागज के पत्तों एवं चाय मिट्टी के कुल्हड़ में पिलाई। चिचली में हुआ भव्य स्वागत एवं भोजन यात्रा के ग्राम चिचली पहुँचने पर ग्रामीणों ने नर्मदा सेवा भक्तों का भव्य स्वागत किया। यहाँ यात्रियों को दोपहर का भोजन पंगत में बैठाकर पलाश के पत्ते से बनी पत्तल में करवाया। खाने के बाद परिक्रमावासी रथ के साथ अपने अगले यात्रा गाँव नलवाय होते हुए रात्रि-विश्राम स्थल लोहारा की ओर प्रस्थान कर गये। रासेयो इकाई, एनसीसी एवं एनआरएलएम की महिलाओं ने किया सहयोग यात्रा के श्रद्धालुओं की व्यवस्था में रासेयो के विद्यार्थियों ने भी अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया। इस दौरान सिलावद एवं मण्डवाड़ा के रासेयो स्वयंसेवकों तथा सेंधवा महाविद्यालय के एनसीसी महिला विंग ने भोजन परोसने में ग्रामीणों को सहयोग दिया। एनआरएलएम की स्व-सहायता समूह की महिलाओं ने भोजन परोसने एवं पंगत के बाद सम्पूर्ण भोजन-शाला स्थल की साफ-सफाई में विशेष योगदान दिया। गाँवों में हुआ जन-संवाद एवं दिलवाई गई शपथ सेवा यात्रा का जत्था जिस भी ग्राम में पहुँचा वहाँ पर रथ पर कलश एवं ध्वज पताका लेकर चल रहे अतिथियों ने जन-संवाद करते हुए जहाँ ग्रामवासियों को नर्मदा सेवा यात्रा के उद्देश्य के बारे में बताया वहीं उन्हे हाथ उठवाकर प्रण भी करवाया कि वे माँ नर्मदा को सदा प्रवाहित करने में अपना पूर्ण योगदान देंगे। साथ ही नर्मदा माई हमेशा स्वच्छ एवं निर्मल बनी रहे इसलिए अपने गाँव को स्वच्छ बनायेंगे।    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 February 2017

माँ नर्मदा

  बड़वानी के ग्राम अंजण तलोड़ा के श्री राधेश्याम कुमावत 'नमामि देवी नर्मदे'- सेवा यात्रा में गौरी कुण्ड जबलपुर से शामिल हुए हैं। इनकी वेशभूषा देखकर कोई भी व्यक्ति इनसे बगैर बात किये नहीं रहता। श्री कुमावत पुण्य सलिला नर्मदा के महत्व को प्रतिपादित करते विभिन्न नारों से लिखा पोस्टर पीठ में लटका रखा है। उनके सिर पर लहरा रहा है 'नमामि देवि नर्मदे'- सेवा यात्रा का ध्वज। उनका कहना है कि यात्रा में सभी धर्म, समाज और वर्ग के लोग साथ चल रहे हैं और साथ भोजन कर रहे हैं। कहीं छुआछूत जैसी समाजिक बुराई नहीं दिखती। यह भी यात्रा की एक बड़ी देन है। उनका मानना है कि इस यात्रा से 'बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ' अभियान को जोड़कर और अधिक सार्थक कर दिया गया है। 'नर्मदा सेवा यात्रा' में 'माँ नर्मदा का अब कर्ज़ चुकाना है- हमें पवित्र बनाना है'' युगों-युगों से देखा है-'माँ नर्मदा जीवन रेखा है', 'हर-हर नर्मदे - घर-घर नर्मदे' और 'नर्मदे हर- जिंदगी भर' जैसे नारों को लगाते हुए जब लोग आगे बढ़ते हैं तो ऐसा लगता है जैसे माँ नर्मदा का प्रवाह साथ चल रहा है। हर यात्री माँ नर्मदा की भक्ति में मगन है। सेवा यात्रा बुधवार को खंडवा जिले के बखर गांव से रवाना होकर करोली नेतन गांव सुलगांव से होकर बुंजली पहुँचेगी । करोली और नेतन गांव में यात्रा का भव्य स्वागत किया गया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  8 February 2017

शहीद भीमा नायक स्मारक का लोकार्पण

  मुख्यमंत्री  शिवराजसिंह चौहान ने बड़वानी जिले के ग्राम धाबा बावड़ी पहुँचकर स्वतंत्रता सेनानी शहीद भीमा नायक के स्मारक का लोकार्पण किया। केन्द्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री श्री फग्गनसिंह कुलस्ते, पशुपालन कल्याण मंत्री श्री अंतरसिंह आर्य, सांसद श्री सुभाष पटेल, विधायक श्री दीवानसिंह पटेल भी उनके साथ थे। मुख्यमंत्री ने जनजाति क्षेत्र के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम सेनानी भीमा नायक के क्रांतिकारी जीवन वृत्त को दर्शाने वाले 42 चित्रों के संग्रह को भी देखा। मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने घर-घर जाकर बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं का शत-प्रतिशत टीकाकरण करने वाली 103 नर्स बहनों की सराहना की। उनके साथ फोटो खिंचवाई। इन नर्सों ने लगभग 400 पहाड़ियों पर बसी बस्तियों में घर-घर जाकर टीकाकरण का कार्य किया। जिला प्रशासन ने इन नर्सों को 'ग्रीन कमाण्डो'' की उपाधि दी है। इस पर आधारित कैलेण्डर का मुख्यमंत्री ने विमोचन किया। मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने लोकार्पण समारोह के दौरान उपस्थित एन.सी.सी., एन.एस.एस., मॉडल स्कूल, नर्मदा कान्वेंट स्कूल, माँ तुझे प्रणाम यात्रा में जाने वाले 300 से अधिक स्वयं सेवक के साथ भी फोटो खिंचवाए। उन्होंने युवाओं को प्रोत्साहित किया कि देश-राज्य-क्षेत्र की आन-बान-शान के लिए वे भी कुछ ऐसा करें, जिससे उनका नाम भी इतिहास के सुनहरे पन्नों में दर्ज हो सके। मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने भीमा नायक स्मारक परिसर में आदिम जाति अनुसंधान एवं विकास संस्थान भोपाल द्वारा लगाई गई ''आदिबिम्ब'' प्रदर्शनी का भी अवलोकन किया। प्रदर्शनी में जनजाति की संस्कृति एवं उनके द्वारा उपयोग किये जाने वाले संसाधनों को प्रस्तुत किया गया था। मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने भीमा नायक स्मारक लोकार्पण के दौरान कांता विकलांग ट्रस्ट जाकर उपस्थित 20 से अधिक दिव्यांग बच्चों से भी मुलाकात की।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 January 2017

जन-जातीय प्रशिक्षण

आदिवासी वर्ग के संविदा शिक्षक के 7000 पद पर भरती के लिये बी.एड. से छूट मिलेगी  मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि अगले बजट सत्र में आवासहीनों को मकान बनाने के लिये जमीन देने का कानून लाया जायेगा। जन-जातीय वर्ग के बच्चों को शैक्षणिक सुविधा उपलब्ध करवाने के लिये संभागीय मुख्यालयों पर 1000 सीटर तथा जिला मुख्यालय पर 500 सीटर आधुनिक कन्या शिक्षा परिसर खोले जायेंगे। उन्होंने कहा कि 20 हजार आदिवासी युवक-युवती को कौशल उन्नयन के लिये प्रशिक्षण देकर स्व-रोजगार दिया जायेगा। श्री चौहान आज बड़वानी में राज्य-स्तरीय जन-जातीय प्रशिक्षण कार्यक्रम एवं सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम में पशुपालन मंत्री श्री अंतर सिंह आर्य भी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गरीबों और आदिवासियों का सर्वांगीण विकास सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकताओं में शामिल है। उन्होंने कहा कि लगभग ढाई लाख आदिवासियों को वनाधिकार पट्टे देकर जमीन का मालिकाना हक दिया गया है। श्री चौहान ने कहा कि जन-जातीय वर्ग में उच्च शिक्षा को बढ़ावा देने के लिये भोपाल, इंदौर और जबलपुर में महाविद्यालयीन छात्रावास खोले जायेंगे। प्रतिभाशाली आदिवासी बच्चों को राष्ट्रीय-स्तर की प्रतियोगी परीक्षाओं में शामिल होने पर दिल्ली के प्रतिष्ठित कोचिंग संस्थानों में पढ़ने की नि:शुल्क व्यवस्था की जायेगी और आवास की सुविधा भी उपलब्ध करवायी जायेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में आदिवासी वर्ग के संविदा शिक्षकों के 7000 पद को भरने के लिये बी.एड. की अर्हता में छूट दी गयी है। अब इन पदों पर गैर-बी.एड. डिग्रीधारक आदिवासी युवक-युवतियों की नियुक्ति की जायेगी और उसके बाद उन्हें बी.एड. का प्रशिक्षण दिलवाया जायेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि जैविक खेती को बढ़ावा देने के लिये 110 करोड़ की योजना बनायी गयी है, ताकि किसानों को जैविक उत्पादों का सही मूल्य मिल सके। मुख्यमंत्री ने जिन आदिवासियों के दिसम्बर-2000 से पहले के कब्जे हैं और उन्हें वनाधिकार पट्टे नहीं मिले हैं, ऐसे लोगो को चिन्हित कर वनाधिकार पट्टे देने के निर्देश जिला प्रशासन को दिये। मुख्यमंत्री ने कहा कि गरीब आदिवासियों को ऋण देकर अधिक ब्याज वसूलने वाले सूदखोरों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने जिला प्रशासन को निर्देश दिये कि वे अभियान चलाकर मूलधन की राशि से ज्यादा ब्याज वसूलने वालों के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्यवाही करें। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री श्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने कहा कि जन-जातीय क्षेत्र में बहुमूल्य खनिज प्रचुर मात्रा में उपलब्ध है। इन क्षेत्रों के विकास में इससे प्राप्त आय का उपयोग किया जायेगा। उन्होंने खरगोन में जन-नायक टंट्या भील स्मारक की स्थापना के बाद आज बड़वानी जिले के धाबा बावड़ी में शहीद भीमा नायक स्मारक का लोकार्पण करने पर मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा‍कि मुख्यमंत्री ने आदिवासी जन-नायकों का सम्मान कर पूरे आदिवासी समाज का सम्मान किया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बड़वानी जिले के पाटी विकासखण्ड में अगले शिक्षा सत्र से नया महाविद्यालय खोलने और खेल आवासीय परिसर बनाने के लिये 15 करोड़ रुपये, बड़वानी शहर में विकास कार्यों के लिये 5 करोड़ रुपये तथा जिले के अन्य नगर परिषदों के लिये 2-2 करोड़ देने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने सम्मेलन में कन्या-पूजन किया। शौच से मुक्त ग्राम पंचायतों के सरपंचों को प्रशस्ति-पत्र, सखी योजना में कैशलेस ट्रांजेक्शन को बढ़ावा देने के लिये लेपटॉप और प्रशस्ति-पत्र, शत-प्रतिशत विद्युतीकरण के लिये प्रशस्ति-पत्र, दिल्ली में प्रतिष्ठित कोचिंग संस्थान में अध्ययन के लिये सहायता, शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाली पंचायतों को 25-25 हजार राशि के चेक, वनाधिकार अधिनियम के तहत पट्टों, आवास सहायता योजना के स्वीकृति-पत्र और राष्ट्रीय प्रवेश परीक्षाओं में चयनित बच्चों को लेपटॉप वितरित किये। इस मौके पर सांसद श्री सुभाष पटेल, श्रीमती सावित्री ठाकुर, विधायक श्री बाला बच्चन सहित जन-प्रतिनिधि और बड़ी संख्या में जन-जातीय वर्ग के लोग उपस्थित थे।     शहीद भीमा नायक स्मारक का लोकार्पण मुख्यमंत्री  शिवराजसिंह चौहान ने बड़वानी जिले के ग्राम धाबा बावड़ी पहुँचकर स्वतंत्रता सेनानी शहीद भीमा नायक के स्मारक का लोकार्पण किया। केन्द्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री श्री फग्गनसिंह कुलस्ते, पशुपालन कल्याण मंत्री श्री अंतरसिंह आर्य, सांसद श्री सुभाष पटेल, विधायक श्री दीवानसिंह पटेल भी उनके साथ थे। मुख्यमंत्री ने जनजाति क्षेत्र के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम सेनानी भीमा नायक के क्रांतिकारी जीवन वृत्त को दर्शाने वाले 42 चित्रों के संग्रह को भी देखा। मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने घर-घर जाकर बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं का शत-प्रतिशत टीकाकरण करने वाली 103 नर्स बहनों की सराहना की। उनके साथ फोटो खिंचवाई। इन नर्सों ने लगभग 400 पहाड़ियों पर बसी बस्तियों में घर-घर जाकर टीकाकरण का कार्य किया। जिला प्रशासन ने इन नर्सों को 'ग्रीन कमाण्डो'' की उपाधि दी है। इस पर आधारित कैलेण्डर का मुख्यमंत्री ने विमोचन किया। मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने लोकार्पण समारोह के दौरान उपस्थित एन.सी.सी., एन.एस.एस., मॉडल स्कूल, नर्मदा कान्वेंट स्कूल, माँ तुझे प्रणाम यात्रा में जाने वाले 300 से अधिक स्वयं सेवक के साथ भी फोटो खिंचवाए। उन्होंने युवाओं को प्रोत्साहित किया कि देश-राज्य-क्षेत्र की आन-बान-शान के लिए वे भी कुछ ऐसा करें, जिससे उनका नाम भी इतिहास के सुनहरे पन्नों में दर्ज हो सके। मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने भीमा नायक स्मारक परिसर में आदिम जाति अनुसंधान एवं विकास संस्थान भोपाल द्वारा लगाई गई ''आदिबिम्ब'' प्रदर्शनी का भी अवलोकन किया। प्रदर्शनी में जनजाति की संस्कृति एवं उनके द्वारा उपयोग किये जाने वाले संसाधनों को प्रस्तुत किया गया था। मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने भीमा नायक स्मारक लोकार्पण के दौरान कांता विकलांग ट्रस्ट जाकर उपस्थित 20 से अधिक दिव्यांग बच्चों से भी मुलाकात की।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 January 2017

बाबूलाल गौर

  मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर कहते हैं कि राजनीति अब सेवा की जगह व्यवसाय बन गई है, यही वजह है कि मंत्रियों और राजनेताओं पर भ्रष्टाचार के आरोप सामने आते रहते हैं।  गौर का कहना है कि समय के साथ कार्य संस्कृति भी बदल गई है। वे कहते हैं कि अब शुचिता की बात राजनेताओं के लिए मायने नहीं रखती है। गौरतलब है कि कल गौर ने पूर्व मुख्यमंत्री सुंदरलाल पटवा के निधन पर आयोजित श्रद्धाजलि सभा में यह कहकर सभी को चौंका दिया था कि पहले हम सूटकेस वापस कर देते थे , आजकल नेता खुद सूटकेस मंगवाते हैं।  जब गौर से इस बारे में बात की तो उनका कहना था कि जब सेवा की जगह राजनीति व्यापार बन जाएगी तो इस तरह की बाते उठेगी ही। उन्होंने कहा कि राजनीति में अब अधिकांश नेता सेवा की भावना से नहीं बल्कि व्यवसाय के मकसद से आते हैं। उन्होंने यह भी कहा कि तत्कालीन पटवा सरकार में 33 महीने में किसी भी मंत्री पर भ्रष्टचार का आरोप नहीं लगा था। जब उनसे पूछा गया कि फिलहाल उन्होंने यह बात किस सन्दर्भ में कही है तो उनका कहना था कि जो बात कहनी थी वे कल कह चुके हैं। इससे अधिक कुछ नहीं कहेंगे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  7 January 2017

शिवराज लन्दन

  मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान 26-27 सितम्बर को युनाइटेड किंगडम के दो दिवसीय दौरे पर रहेंगे। मुख्यमंत्री युनाइटेड किंगडम की सेक्रेटरी ऑफ स्टेट फॉर इंटरनेशनल डेव्हलेपमेंट श्रीमती प्रीति पटेल के आमंत्रण पर स्मार्ट सिटी की अवधारणा और प्रबंधन के तरीकों और स्किल डेव्हलपमेन्ट कार्यों का अवलोकन करने जा रहे हैं। यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री श्री चौहान स्मार्ट सिटी प्रबंधन के विशेषज्ञों से चर्चा करेंगे। मुख्यमंत्री लंदन प्रवास में विभिन्न कंपनियों के प्रमुखों से भी मुलाकात करेंगे। मुख्यमंत्री 26 सितम्बर, सोमवार को  प्रीति पटेल से मुलाकात करेंगे और लंदन के शहर प्रबंधक विशेषज्ञों से चर्चा करेंगे। इसी दिन दोपहर में वे विभिन्न कंपनियों के प्रमुखों से भेंट करेंगे। श्री चौहान प्यूरीको ग्रुप के संस्थापक श्री नाथूराम पुरी से मुलाकात करेंगे। प्यूरीको समूह पेपर, पॉलीमर और प्लास्टिक निर्माण से जुड़ा है। यह समूह स्वागत और रियल स्टेट व्यवसाय में भी सक्रिय हैं। मुख्यमंत्री डी ला रू पिक ग्रुप के प्रमुख से मुलाकात करेंगे। यह समूह करेंसी रखरखाव के उपकरण और सुरक्षा उत्पादों के प्रदाय से जुड़ा है। श्री चौहान रोल्स रॉयस के उपाध्यक्ष श्री मघिन तमिलारासन से भी मुलाकात करेंगे। वे रक्षा क्षेत्र के लिये आवश्यक उपकरण निर्माण की इकाइयों की स्थापना की संभावनाओं पर चर्चा करेंगे। उल्लेखनीय है कि रोल्स रॉयस इंटीग्रेटेड पॉवर और प्रोपल्सन सॉल्यूशन के क्षेत्र में सक्रिय है। यह उच्च तकनीकी से समृद्ध कारों का भी निर्माण करती है। श्री चौहान हारग्रिव्स इंडस्ट्रियल सर्विसेज के व्यापार विकास संचालक श्री केविन साबिन से भेंट करेंगे। यह कंपनी पॉवर, पोर्ट, स्टील और अन्य औद्योगिक क्षेत्रों को मटेरियल प्रबंधन सुविधा उपलब्ध करवाती है। मुख्यमंत्री अपने प्रवास के दौरान श्री मार्टिन हेटफुल से भी मुलाकात करेंगे। श्री चौहान जेसीबी के श्री फिलिप बाउवेरट से भी मिलेंगे। जेसीबी बहुराष्ट्रीय कार्पोरेशन हैं जो निर्माण उपकरण बनाती है। श्री चौहान हिन्दूजा समूह के सह अध्यक्ष श्री गोपीचंद हिन्दूजा के भोज में शामिल होंगे और उनसे ऑटोमोबाइल, एग्री बिजनेस, खाद्य प्र-संस्करण, नवकरणीय ऊर्जा, स्मार्ट सिटी प्रबंधन और एकीकृत औद्योगिक टाउनशिप निर्माण जैसे विषयों पर चर्चा करेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान 27 सितम्बर, मंगलवार को भारत- यू.के. स्वास्थ्य संस्थान के चेयरमेन प्रोफेसर माइक पार्कर और अंतर्राष्ट्रीय व्यापार विभाग यू.के. के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ. अजय गुप्ता और माइक निथाक्रियांकिस से मुलाकात करेंगे। श्री चौहान लंदन के डिप्टी मेयर श्री राजेश अग्रवाल से मुलाकात करेंगे और भारतीय उद्योग परिसंघ एवं यू.के.- इंडिया बिजनेस काउंसिल द्वारा आयोजित सेमीनार – 'मध्यप्रदेश में निवेश संभावनाएँ' को संबोधित करेंगे। श्री चौहान 28 सितम्बर, बुधवार को नई दिल्ली वापस आयेंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 September 2016

हनुमान जयंती : स्वर्ण चोला पहन नगर भ्रमण पर निकलेंगे सालासर बालाजी

 हनुमान जयंती पर झिलमिलाती रोशनी के बीच मंदिरों में शुक्रवार शाम को चोला चढ़ाकर सुंदरकांड का का पाठ किया जाएगा। वहीं तिलक नगर में सालासर हनुमान को नगर भ्रमण कराया जाएगा। इधर, कुछ देवालयों में अखंड रामायण पाठ जारी है।पढ़ें, कहां क्या होगा...     -  रणजीत हनुमान मंदिर में चोला चढ़ाकर महाआरती की जाएगी। श्रद्धालुओं के दर्शन के लिए विशेष व्यवस्था की गई। - तिलक नगर स्थित सालासर हनुमानजी को स्वर्ण चोला चढ़ाकर पूजन किया जाएगा। उसके बाद ध्वजारोहण होगा और बालाजी को नगर भ्रमण कराया जाएगा। - श्री हंसदास मठ पीलियाखाल संस्थान के रणछोड़ पंचमुखी चिंताहरण हनुमान मंदिर में रामचरणदास महाराज के सान्निध्य में जन्म आरती सुबह साढ़े 6 बजे होगी। शाम 7 बजे शृंगार होगा।- ओल्ड राजमोहल्ला स्थित हरिराम मंदिर में विशेष शृगार किया जाएगा। यहां हनुमानजी के साथ उनके पुत्र मकरध्वज की मूर्ति आकर्षण का केंद्र रहेगी।- श्री लक्ष्मी वेंकटेश देवस्थान छत्रीबाग में सुबह साढ़े 6 बजे हनुमानजी का विशेष शृंगार किया जाएगा, वहीं रात को सुंदरकांड का पाठ किया जाएगा। - सत्यसाईं चौराहा स्थित पंचमुखी हनुमान मंदिर में विशेष शृंगार किया जाएगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

Video
Advertisement
x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved ©2024 MadhyaBharat News.