Since: 23-09-2009

  Latest News :
बिहार के किशनगंज में स्कॉर्पियो और डंपर की टक्कर में पांच की मौत.   वायु सेना के एयर शो में आसमानी करतब.   कांग्रेस नेता गौरव गोगोई लोकसभा में होंगे पार्टी के उप नेता.   चुनावी रैली के दौरान अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति ट्रम्प पर गोलियां चलाई गई.   जम्मू-कश्मीर के राजनीतिक दलों ने उप राज्यपाल को अधिक अधिकार देने का किया विरोध.   शादी के बंधन में बंधे अनंत-राधिका.   नर्मदापुरम के प्राइवेट स्कूलों पर भी शिक्षा विभाग सख्‍त.   चलती कार पर पत्थर मारकर रिटायर्ड नर्स की हत्या.    दाे ट्रकों में आमने सामने की भिड़ंत के बाद लगी भीषण आग.   वाणिज्यिक कर कार्यालय की दूसरी मंजिल में लगी आग.   इंदौर की पहचान एक पेड़ मां के नाम.   कैबिनेट मंत्री गाेविंद सिंह राजपूत और अर्जुन अवार्डी खिलाड़ी दीपा मलिक ने किए बाबा महाकाल के दर्शन.   जनजनित बीमारियों की रोकथाम के लिए स्वास्थ्य शिविर लगाएं : मुख्यमंत्री साय.   छत्तीसगढ़ में अब तक 248.5 मिमी औसत वर्षा दर्ज.   गर्भवती महिला को तीन किमी कांवर में उठाकर पहुंचाया अस्पताल.   प्रवेश सूची में नाम देखने पहुंचे विद्यार्थी.   चरणपादुका पाकर खिले कमार बच्चों के चेहरे.   छत्तीसगढ़ में सात महीनों के भीतर अपराध में काफी कमी आई.  
मैनेजर को भटठ्ठे में जिंदा जलाने के मामले में खुलासा
katni, Revelation , manager alive

कटनी। कटनी में सिमको लाइम स्टोन कंपनी के मैनेजर की हत्या मामले में पुलिस ने शनिवार को खुलासा कर दिया है। पुलिस ने इस हत्याकांड में शामिल 4 आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपित चोरी करने के मकसद से घर में घुसे थे। मैनेजर के जागने के पर उसे मार दिया था। इसके बाद सबूत छिपाने के लिए शव को चूने के भट्टे में फेंक दिया।

 

कुठला थाना क्षेत्र अंतर्गत आने वाले कछगवां ग्राम में बीते दिनों सिमको कंपनी के मैनेजर समनु प्रसाद विश्वकर्मा की हत्या करके मृतक के शव को छुपाने के लिए चुने के भटठ्ठे में फेंक दिया गया था। घटना की जानकारी लगते ही मौके कर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज जांच शुरू कर दी थी। पुलिस ने हत्या की जांच के लिए अलग-अलग टीमें बनाई थी। घर में एक कमरे में नोट बिखरे मिले और वहीं खून के छींटे भी मिले थे।शनिवार को पुलिस ने पूरे मामले का खुलासा करते हुए बताया कि चोरी की नीयत से ही कंपनी में काम करने वाले आशीष सिंह ठाकुर (28), विनोद सिंह पुत्र ज्ञान सिंह( 35), रंजीत उर्फ गोलू सिंह पुत्र देवी सिंह (24), सनम सिंह पुत्र वीरेन्द्र सिंह (19) के द्वारा हत्याकांड को अंजाम दिया गया था। आरोपितों ने पूछताछ में बताया कि वे रात में चोरी करने के लिए घुसे थे, उसी दौरान मैनेजर नींद से जाग गया और उन्हें देख लिया। वो शोर ना मचा दे इसलिए उसको पकड़कर मार दिया। हत्या के बाद आरोपित डर गए थे, उन्होंने लाश को ठिकाने लगाने के लिए उसे सिमको कंपनी के भट्टे में ही उसे फेंक दिया। पुलिस ने इस मामले में आरोपियों के पास से चोरी किए गए पैसे भी बरामद किए गए हैं। इन सभी आरोपितों को न्यायालय के समक्ष पेश किया गया।

MadhyaBharat 22 June 2024

Comments

Be First To Comment....
Video

Page Views

  • Last day : 8641
  • Last 7 days : 45219
  • Last 30 days : 64212


x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved ©2024 MadhyaBharat News.