Since: 23-09-2009

  Latest News :
जेपी नड्डा ने देशव्यापी अभियान \'एक पेड़ मां के नाम\' के अंतर्गत लगाया पौधा.   सिक्किम के लापता पूर्व मंत्री रामचंद्र पौड्याल का शव बांग्लादेश में मिला.   ओमान में बंदरगाह पर तेल टैंकर पलटा.   केजरीवाल पर हाई कोर्ट ने सुरक्षित रखा फैसला.   डोडा में सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच हुई गोलीबारी.   अजीत पवार गुट के 4 नेता और 24 पदाधिकारी शरद पवार के साथ आए.   मंत्री राधा सिंह पर आरोप.   मुख्यमंत्री से नहीं संभल रहे 2 पद.   महिला ने दवा के धाेखे में खाया सल्फास ईलाज के दाैरान माैत.   जीतू पर आराेप लगाने वाले कांग्रेस नेता अब भी अपनी बात पर कायम.   मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने घायल बाघ शावकों की जीवन रक्षा के प्रयास की सराहना की.   खदान में डूबने से दो नाबालिग बच्चों की मौत.   उप मुख्यमंत्री अरुण साव छत्तीसगढ़ सराफा एसोशिएशन के शपथ ग्रहण समारोह में हुए शामिल.   रेलवे ट्रैक में एक अज्ञात महिला का शव टुकड़ों में पड़ा मिला.   कांग्रेस तथ्य और वस्तु स्थिति जाने बिना भ्रम फैलाने का काम करती है : साव.   ट्रक व बस में भीषण भिड़ंत.   मुख्यमंत्री साय विशेष विमान से दिल्ली रवाना.   बीमारी से परेशान प्रधान अध्यापक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली.  
कांग्रेस छोड़ भाजपा में आए रामनिवास रावत बने मप्र में कैबिनेट मंत्री
bhopal, Ramniwas Rawat, Madhya Pradesh

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने अपने मंत्रिमंडल का विस्तार किया है। कांग्रेस से भाजपा में आए रामनिवास रावत को कैबिनेट मंत्री बनाया गया है। राजभवन में सोमवार सुबह संक्षिप्त कार्यक्रम में राज्यपाल मंगुभाई पटेल ने उन्हें कैबिनेट मंत्री पद की शपथ दिलाई। इसके साथ अब डॉ. मोहन यादव सरकार में मुख्यमंत्री समेत 31 मंत्री हो गए हैं। मंत्रिमंडल में अधिकतम 34 मंत्री हो सकते हैं।
रावत 68 दिन पहले ही लोकसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आए थे। सोमवार को राजभवन में उन्होंने मंत्री पद की शपथ ली। रावत को सुबह करीब 9ः05 बजे बतौर कैबिनेट मंत्री शपथ लेनी थी, लेकिन राज्यमंत्री पद की शपथ ले ली। दरअसल, कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ लेते समय उनकी जुबान फिसल गई। वह राज्य के मंत्री की जगह  राज्यमंत्री पढ़ गए। उन्होंने कि -"मैं मध्य प्रदेश के राज्यमंत्री के रूप में अपने कर्तव्यों का निष्ठापूर्वक और शुद्ध अंतःकरण से निर्वहन करूंगा।" इससे गफलत हुई कि वह राज्यमंत्री बनाए गए हैं। हालांकि, बाद में स्पष्ट हुआ कि वे कैबिनेट मंत्री बनाए गए हैं। इसीलिए उन्हें 9ः20 बजे दोबारा कैबिनेट मंत्री की शपथ लेनी पड़ी। समारोह में मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव समेत कई मंत्री मौजूद रहे।

मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने रामनिवास रावत को कैबिनेट मंत्री बनाने पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि मंत्रिमंडल में एक नए सदस्य का आगमन हुआ है। कैबिनेट मंत्री के नाते रामनिवास रावत के अनुभव का लाभ मिलेगा। उनके अनुभव का सरकार और क्षेत्र की जनता को लाभ मिलेगा। पिछड़े और विकास की संभावनाओं वाले क्षेत्र से प्रतिनिधित्व मिल रहा है।
पिछले साल हुए विधाधानसभा चुनाव के परिणाम 3 दिसंबर 2023 को आए थे। इसके 8 दिन बाद 11 दिसंबर को मुख्यमंत्री पद पर डॉ. मोहन यादव और दो उपमुख्यमंत्री राजेंद्र शुक्ल, जगदीश देवड़ा का चयन किया गया। इसके दो दिन बाद 13 दिसंबर को सीएम और दोनों डिप्टी सीएम ने शपथ ली थी। फिर 12 दिन बाद 25 दिसंबर को पहला मंत्रिमंडल विस्तार हुआ। इसमें 28 मंत्रियों को शपथ दिलाई गई थी। इसमें 18 कैबिनेट और 10 राज्यमंत्री शामिल हैं। अब रामनिवास रावत को मिलाकर मंत्रिमंडल में राज्यमंत्रियों की संख्या 11 हो गई है।

कौन हैं रामनिवास रावतः  रामनिवास रावत श्योपुर की विजयपुर सीट से छह बार के विधायक हैं। वे उमंग सिंघार को नेता प्रतिपक्ष बनाने से नाराज थे, जिसके बाद वे कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हो गए थे। लोकसभा चुनाव के दौरान 30 अप्रैल 2024 को उन्होंने मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव, पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और भाजपा जॉइनिंग टोली के मुखिया नरोत्तम मिश्रा की मौजूदगी में श्योपुर के एक चुनावी कार्यक्रम में भाजपा की सदस्यता ली थी।

MadhyaBharat 8 July 2024

Comments

Be First To Comment....
Video

Page Views

  • Last day : 8641
  • Last 7 days : 45219
  • Last 30 days : 64212


x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved ©2024 MadhyaBharat News.