Since: 23-09-2009

  Latest News :
बिहार के किशनगंज में स्कॉर्पियो और डंपर की टक्कर में पांच की मौत.   वायु सेना के एयर शो में आसमानी करतब.   कांग्रेस नेता गौरव गोगोई लोकसभा में होंगे पार्टी के उप नेता.   चुनावी रैली के दौरान अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति ट्रम्प पर गोलियां चलाई गई.   जम्मू-कश्मीर के राजनीतिक दलों ने उप राज्यपाल को अधिक अधिकार देने का किया विरोध.   शादी के बंधन में बंधे अनंत-राधिका.   नर्मदापुरम के प्राइवेट स्कूलों पर भी शिक्षा विभाग सख्‍त.   चलती कार पर पत्थर मारकर रिटायर्ड नर्स की हत्या.    दाे ट्रकों में आमने सामने की भिड़ंत के बाद लगी भीषण आग.   वाणिज्यिक कर कार्यालय की दूसरी मंजिल में लगी आग.   इंदौर की पहचान एक पेड़ मां के नाम.   कैबिनेट मंत्री गाेविंद सिंह राजपूत और अर्जुन अवार्डी खिलाड़ी दीपा मलिक ने किए बाबा महाकाल के दर्शन.   जनजनित बीमारियों की रोकथाम के लिए स्वास्थ्य शिविर लगाएं : मुख्यमंत्री साय.   छत्तीसगढ़ में अब तक 248.5 मिमी औसत वर्षा दर्ज.   गर्भवती महिला को तीन किमी कांवर में उठाकर पहुंचाया अस्पताल.   प्रवेश सूची में नाम देखने पहुंचे विद्यार्थी.   चरणपादुका पाकर खिले कमार बच्चों के चेहरे.   छत्तीसगढ़ में सात महीनों के भीतर अपराध में काफी कमी आई.  
एमपी से जुड़े यूपी पेपर लीक मामले के तार
bhopal,  paper leak case, related to MP

भोपाल। उत्तर प्रदेश में समीक्षा अधिकारी और सहायक समीक्षा अधिकारी परीक्षा के प्रश्न पत्र लीक मामले में एसटीएफ ने सोमवार को बड़ा खुलासा किया है। पेपर भोपाल की एक प्रिंटिंग प्रेस में छपे थे। इस मामले में यूपी एसटीएफ ने प्रिंटिंग प्रेस के मैकेनिकल इंजीनियर सुनील रघुवंशी समेत 6 लोगों को प्रयागराज से गिरफ्तार किया है। आरोपित सुनील ने पेपर लीक के एवज में दस लाख रुपये लिए थे।

 

 

एसटीएफ की पूछताछ में सुनील ने बताया है कि दस लाख रुपए लेकर उसने पर्चा लीक किया था। प्रिंटिंग मशीन के पार्ट्स में खराबी बताकर उसने एक पुर्जे को निकाल लिया था। इसे रिपेयर कराने के नाम पर उसने पार्ट्स को बड़े बॉक्स में कागजों में लपेटकर पैक किया। इसी के बीच उसने मौका देखकर पेपर छिपा दिया था। इस तरह आसानी से वह पेपर को बाहर निकाल लाया था। इसके बाद उसने पेपर साथियों की मदद से लीक किया।

 

 

प्रश्न पत्र लीक मामले में जिन आरोपितों को गिरफ्तारी हुई है उनमें सुनील रघुवंशी, भोपाल (मप्र), सुभाष प्रकाश, मधुबनी (बिहार), विशाल दुबे, प्रयागराज (यूपी), संदीप पाण्डेय, प्रयागराज (यूपी), अमरजीत शर्मा, गया (बिहार), विवेक उपाध्याय, बलिया (यूपी) शामिल हैं । बता दें कि उत्तरप्रदेश लोक सेवा आयोग प्रयागराज ने 11 फरवरी 2024 को समीक्षा अधिकारी/सहायक समीक्षा अधिकारी (प्रारम्भिक) परीक्षा-2023 का आयोजन किया था। इस परीक्षा के शुरू होने से पहले ही पेपर सोशल मीडिया पर वायरल होने की शिकायत मिली थी। जिसके बाद सरकार ने परीक्षा को निरस्त कर दी थी और यूपी एसटीएफ को इसकी जांच सौंपी थी।

MadhyaBharat 24 June 2024

Comments

Be First To Comment....
Video

Page Views

  • Last day : 8641
  • Last 7 days : 45219
  • Last 30 days : 64212


x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved ©2024 MadhyaBharat News.