Since: 23-09-2009

  Latest News :
बिहार के किशनगंज में स्कॉर्पियो और डंपर की टक्कर में पांच की मौत.   वायु सेना के एयर शो में आसमानी करतब.   कांग्रेस नेता गौरव गोगोई लोकसभा में होंगे पार्टी के उप नेता.   चुनावी रैली के दौरान अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति ट्रम्प पर गोलियां चलाई गई.   जम्मू-कश्मीर के राजनीतिक दलों ने उप राज्यपाल को अधिक अधिकार देने का किया विरोध.   शादी के बंधन में बंधे अनंत-राधिका.   नर्मदापुरम के प्राइवेट स्कूलों पर भी शिक्षा विभाग सख्‍त.   चलती कार पर पत्थर मारकर रिटायर्ड नर्स की हत्या.    दाे ट्रकों में आमने सामने की भिड़ंत के बाद लगी भीषण आग.   वाणिज्यिक कर कार्यालय की दूसरी मंजिल में लगी आग.   इंदौर की पहचान एक पेड़ मां के नाम.   कैबिनेट मंत्री गाेविंद सिंह राजपूत और अर्जुन अवार्डी खिलाड़ी दीपा मलिक ने किए बाबा महाकाल के दर्शन.   जनजनित बीमारियों की रोकथाम के लिए स्वास्थ्य शिविर लगाएं : मुख्यमंत्री साय.   छत्तीसगढ़ में अब तक 248.5 मिमी औसत वर्षा दर्ज.   गर्भवती महिला को तीन किमी कांवर में उठाकर पहुंचाया अस्पताल.   प्रवेश सूची में नाम देखने पहुंचे विद्यार्थी.   चरणपादुका पाकर खिले कमार बच्चों के चेहरे.   छत्तीसगढ़ में सात महीनों के भीतर अपराध में काफी कमी आई.  
कमलनाथ ने साधा सियासी निशाना
bhopal, Kamal Nath ,took political aim

भोपाल। पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस विधायक कमलनाथ ने कर्ज को लेकर प्रदेश सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा है कि मोहन सरकार ने प्रदेश को कर्ज के दलदल मे डूबा दिया है और कर्ज़ का उपयोग जनता के कल्याण के बजाए ठेका और कमीशनराज में हो रहा है।

 

कमलनाथ ने गुरुवार को सोशल मीडिया एक्स पर पोस्ट करते हुए लिखा मध्य प्रदेश की मोहन यादव सरकार ने प्रदेश को कर्ज़ के दलदल में डुबा दिया है। राज्य सरकार पर इस समय क़रीब पौने 4 लाख करोड़ रुपये का कर्ज़ है। यदि प्रति व्यक्ति कर्ज़ के लिहाज़ से देखें तो एक साल पहले मध्य प्रदेश के हर नागरिक पर 39 हज़ार रुपया कर्ज़ था जो इस वर्ष बढ़कर 45 हज़ार रुपया हो गया और मार्च 2025 तक 55 हज़ार रुपया प्रति व्यक्ति कर्ज़ हो जाएगा।राज्य सरकार की आमदनी का एक बड़ा हिस्सा कर्ज़ का ब्याज चुकाने में ख़र्च होता है।

कमलनाथ ने आगे कहा प्रदेश सरकार कि इसी कर्ज़ नीति का परिणाम है कि मध्य प्रदेश की जनता पेट्रोल,डीजल, रसोई गैस सिलेंडर और बिजली सबसे ज़्यादा महँगी क़ीमत पर ख़रीदती है। जनता जो टैक्स जमा करती है, उसका इस्तेमाल सरकार कर्ज़ का ब्याज चुकाने में कर रही है। इस भारी भरकम कर्ज़ का उपयोग जनता के कल्याण के बजाए ठेका और कमीशनराज में हो रहा है।

MadhyaBharat 4 July 2024

Comments

Be First To Comment....
Video

Page Views

  • Last day : 8641
  • Last 7 days : 45219
  • Last 30 days : 64212


x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved ©2024 MadhyaBharat News.