Since: 23-09-2009

  Latest News :
महानदी नाव हादसे में अबतक सात शव बरामद.   पहले चरण के चुनाव में ही मतदाताओं ने इंडी गठबंधन को नकार दिया: मोदी.   राहुल गांधी वंशवाद और विभाजनकारी राजनीति को बढ़ावा देते हैं: नड्डा.   बंगाल के कूचबिहार में मतदान के दौरान हिंसा.   वाइस एडमिरल दिनेश कुमार त्रिपाठी होंगे अगले नौसेना प्रमुख.   प्रधानमंत्री मोदी ने अमरोहा की जनसभा में कहा-इंडी गठबंधन राम और कृष्ण विरोधी.   कांग्रेस प्रत्याशी नीटू के भाई पर गोलियां चलाकर प्राणघातक हमला .   कमलनाथ का छिंदवाड़ा मॉडल खोखला: सीएम डॉ यादव.   मध्यप्रदेश में तीन दिन आंधी-बारिश की संभावना.   चुनाव ड्यूटी से लौट रहे पुलिस जवान और होमगार्ड सैनिकों की बस पलटी.   हिंदू लड़की को घर में बंधक बनाकर दरिंदगी करता रहा अयान पठान.   मप्र में छह संसदीय क्षेत्रों में दोपहर 3 बजे तक हुआ 53.40 प्रतिशत मतदान.   बारात निकलने से पहले दुल्हा ने किया मतदान .   जिले में तरबूज की खपत बढ़ी गर्मी का असर.   कवासी लखमा महेश कश्यप मंत्री केदार और भाजपा अध्यक्ष किरण देव ने किया मतदान.   उरला में बिजली ट्रांसफार्मर में लगी आग.   बस्तर लोकसभा चुनाव: ग्रेनेड ब्लास्ट होने से एक जवान के घायल.   राजनीतिक दल के लिए चुनाव प्रचार करने वाले दो कर्मचारी निलंबित.  
मध्य प्रदेश में ओलावृष्टि से कई जिलों में फसल तबाह
bhopal, Crop destroyed,hailstorm ,Madhya Pradesh

भोपाल। मध्य प्रदेश में पिछले एक सप्ताह से तेज बारिश-आंधी और ओलावृष्टि का दौर जारी है। कई जिलों में रविवार को बेर के आकार के ओले गिरे हैं। ग्वालियर-चंबल संभाग, बुंदेलखंड, मालवा-निमाड़, महाकोशल और विंध्य क्षेत्र में जमकर ओलावृष्टि के साथ बारिश हुई। मंदसौर, डिंडौरी, खरगोन, रायसेन, आगर-मालवा, शिवपुरी, ग्वालियर के घाटीगांव में तो सड़कों पर ओले गिरने से बर्फ की चादर बिछ गई। इससे खेतों में खड़ी गेहूं, चना और सरसों की फसल बर्बाद हो गई। मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार सोमवार को भी मौसम ऐसा ही रहने की संभावना है।

मार्च के महीने में दो बार तेज बारिश, ओले और आंधी का सिस्टम बना है। मार्च के पहले ही सप्ताह में 25 से ज्यादा जिलों में फसलें तबाह हो गई थी। सरकार फसलों को हुए नुकसान का सर्वे भी करा रही है। पिछले एक सप्ताह से बिगड़े सिस्टम की वजह से गेहूं, चने और सरसों की फसलों पर असर पड़ा है। विभाग ने सोमवार को भी प्रदेश में आम तौर पर ऐसा ही मौसम रहने की संभावना व्यक्त की है। विभाग के अनुसार सोमवार को राजधानी भोपाल, इंदौर, जबलपुर और उज्जैन में मौसम बदला हुआ रहेगा। वहीं, ग्वालियर, चंबल, रीवा और सागर संभाग में गरज-चमक के साथ बिजली कड़कने और तेज बारिश की संभावना है। यहां तेज हवा चलेगी और बारिश भी हो सकती है। हवा की रफ्तार 70 किलोमीटर प्रतिघंटा तक रहने की संभावना है।

भोपाल में रविवार को दिनभर बादल छाए रहे। वहीं, देर शाम करीब 7:30 बजे तेज बारिश शुरू हो गई, जो करीब डेढ़ घंटे से ज्यादा समय तक चलती रही। इससे पहले शनिवार को भोपाल में जमकर ओलावृष्टि हुई थी और पानी भी गिरा था।

MadhyaBharat 20 March 2023

Comments

Be First To Comment....
Video

Page Views

  • Last day : 8641
  • Last 7 days : 45219
  • Last 30 days : 64212


x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved ©2024 MadhyaBharat News.