Since: 23-09-2009

  Latest News :
मणिपुर में 3.5 तीव्रता का भूकंप.   दार्जिलिंग में लिकुवीर के पास एनएच-10 बंद.   जम्मू-कश्मीर से आतंकवाद के सफाये के लिए कोई कोर कसर नहीं छोड़ेगी सरकार: केन्द्रीय गृह मंत्री शाह .   बाबा के जयकारों से गूंज उठा कैंची धाम.   नार्काे-आतंकवादी मॉड्यूल का भंडाफोड़.   गाजियाबाद के लोनी स्थित पॉलिथीन बनाने की फैक्टरी में भीषण आग.   पिता परिवार की नींव, हमारी बुनियाद हैं .   जल गंगा संवर्धन अभियान को मिला अपार जनसहयोग : मुख्यमंत्री डॉ यादव.   दाऊदी बोहरा समाज ने मनाया ईद का पर्व, मस्जिदों में हुई विशेष नमाज.   एक साथ कॉम्बिंग पर निकले 15 हजार से अधिक पुलिसकर्मी.   कांग्रेस आउट सोर्स प्रकोष्ट का सरकार के खिलाफ हल्लाबोल आंदोलन.   ऐतिहासिक भोजशाला में 85वें दिन भी जारी रहा एएसआई का सर्वे.   भीम रेजीमेंट के रायपुर संभाग का अध्यक्ष जीवराखन बांधे गिरफ्तार.   कांग्रेस व भाजपा ने सतनामियों को सिर्फ प्रताड़ित किया : अमित जोगी.   संघर्ष के दिनों की यादें साथ लेकर मुख्यमंत्री से मिलने आए जशपुर के अनेर सिंह.   नक्सल मुठभेड़ में घायल जवान ने कहा ठीक होते ही और मारूंगा.   मुख्यमंत्री साय ने तीसरे दिन भी ली विभिन्न विभागों की समीक्षा बैठक.   बलौदाबाजार हिंसा पर जस्टिस गौतम भादुड़ी ने लिया स्वतः संज्ञान.  
मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना में 4 दिनों में 11 लाख पंजीयन हुए
indore,  Chief Minister, Ladli Bahna Yojana

इंदौर। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रदेश में अत्यंत महत्वाकांक्षी मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना का कार्य प्रारंभ हो गया है। बीते चार दिनों में लगभग 11 लाख पंजीयन हो चुके हैं। जिन जिलों में योजना के आवेदन भरे जाने की प्रगति अच्छी है उनको मैं बधाई देता हूँ। मंदसौर, बुरहानपुर, उज्जैन, सीहोर और बालाघाट जिले में प्रगति अच्छी है। सिंगरौली, सतना, पन्ना, गुना और मुरैना जिले में स्थिति ठीक नहीं है, ऐसे अन्य जिलों में भी ध्यान देकर आवेदन भरवाने का कार्य किया जाये।

 

मुख्यमंत्री चौहान बुधवार को अपने निवास कार्यालय समत्व भवन में मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना की वर्चुअली समीक्षा कर रहे थे। बैठक में प्रमुख सचिव महिला एवं बाल विकास दीपाली रस्तोगी और वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। मंत्रीगण, सांसद, विधायक तथा जिलों के कलेक्टर्स वर्चुअली जुड़े। इंदौर से इस वीडियो कॉन्फ्रेसिंग में कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी, विधायक रमेश मेंदोला, आकाश विजयवर्गीय, नगर निगम आयुक्त प्रतिभा पाल, पूर्व विधायक राजेश सोनकर, इंदौर विकास प्राधिकरण के पूर्व अध्यक्ष मधू वर्मा सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

 

मुख्यमंत्री ने कम प्रगति वाले जिलों के अधिकारियों से जानकारी ली। उन्होंने कहा कि योजना में आवेदन भरवाये जाने का कार्य गंभीरतापूर्वक किया जाये। उन्होंने सिंगरौली और गुना जिले के कलेक्टर्स को विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि जिन जिलों में प्रगति कम है, वे जिले समस्याओं का समाधान कर प्रगति बढ़ायें। प्रदेश की अति महत्वपूर्ण योजना के क्रियान्वयन में लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं इस योजना की 3 दिन बाद फिर से समीक्षा करूँगा। योजना के क्रियान्वयन की लगातार समीक्षा की जायेगी। उन्होंने कहा कि लापरवाह अधिकारियों पर कार्यवाही करने की हिदायत भी दी। उन्होंने कहा कि हर गाँव और वार्ड में आवेदन भराये जाना प्रारंभ कर दिये जाये। अभी 4931 ग्राम पंचायत और 807 नगरीय वार्ड में आवेदन भराये जाने की प्रगति शून्य है, जो चिंताजनक है। इन क्षेत्रों में प्रगति बढ़ायी जाये। उन्होंने कहा कि बहनों के आवेदन बिना कोई असुविधा के भराये जायेंगे।

 

मुख्यमंत्री चौहान ने अच्छी प्रगति वाले जिलों के कलेक्टर्स से भी जानकारी ली। उन्होंने मंदसौर, बुरहानपुर, उज्जैन, सीहोर और बालाघाट के कलेक्टर्स को बधाई देते हुए कहा कि अन्य जिलों के अधिकारी भी अच्छी प्रगति वाले जिलों से प्रेरणा लें। उन्होंने कहा कि आँगनवाड़ी कार्यकर्ता और सहायिकाएँ इस योजना में सहयोग करें। उन्होंने जन-प्रतिनिधियों से कहा कि सब मिल कर योजना के क्रियान्वयन में लग जायें। ई-केवायसी मित्र बना कर भी सहयोग लिया जाये। शिविर का प्रचार-प्रसार कर आवेदन भरवाये जायें।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि महिला स्व-सहायता समूह की बहनों को ई-केवायसी के कार्य में जोड़ा जाये। पंजीयन में आने वाली कठिनाइयों को दूर किया जाये। हर वार्ड और गाँव-गाँव में योजना का प्रचार-प्रसार कराया जाये। नगरीय क्षेत्रों में स्वच्छता वाहनों और ग्रामीण क्षेत्रों में दीवार लेखन से भी प्रचार हो। ई-केवायसी के लिए अधिक से अधिक वॉलिंटयर्स का उपयोग करें। कलेक्टर्स जन-सहयोग और किराये के वाहन लेकर प्रचार-प्रसार करवायें। साथ ही बैठक कर योजना की प्रगति बढ़ायें और योजना का बेहतर क्रियान्वयन करें।

 

मुख्यमंत्री ने कलेक्टर्स को योजना में नवाचार करने के निर्देश भी दिए। उन्होंने कहा कि योजना का कार्य पुण्य और पवित्र कार्य है। इसलिए टीम भावना के साथ जन-प्रतिनिधि, समाज और प्रशासन के अधिकारी कार्य करें।

MadhyaBharat 29 March 2023

Comments

Be First To Comment....
Video

Page Views

  • Last day : 8641
  • Last 7 days : 45219
  • Last 30 days : 64212


x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved ©2024 MadhyaBharat News.