Since: 23-09-2009

  Latest News :
प्रधानमंत्री मोदी की भाजपा को चंदा देने की अपील.   झारखंड में विदेशी महिला के साथ गैंगरेप के मामले में तीन गिरफ्तार.   अब 6 मार्च को दिल्ली कूच करेंगे किसान.   पूर्व केन्द्रीय मंत्री ने की राजनीति से संन्यास की घोषणा.   आसनसोल से चुनाव नहीं लड़ेंगे पवन सिंह.   गौतम गंभीर के बाद अब जयंत सिन्हा ने चुनाव लड़ने से किया इनकार.   रुद्राक्ष महोत्सव में शामिल होंगे अनेक वीआईपी.   भगवान श्रीकृष्ण के जीवन से सीखें जीने की राह: मुख्यमंत्री डॉ यादव.   मप्र में बेमौसम बारिश का सिलसिला जारी.   भारत जोड़ो न्याय यात्रा बीच में ही छोड़कर पटना रवाना हुए राहुल गांधी.   हरदा पटाखा फैक्ट्री विस्फोट मामले में आठवां आरोपी गिरफ्तार.   देश में सामाजिक व आर्थिक अन्याय रोकना जरूरी: राहुल गांधी.   मुख्यमंत्री ने बच्चों को दवा पिलाकर पल्स पोलियो अभियान का किया शुभारंभ.   मुख्यमंत्री साय ने जशपुर जिले में दो थाना चौकी का शुभारंभ किया.   अभिनेत्री महिमा चौधरी ने मैराथन दौड़ को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना.   कांग्रेस और नक्सलियों के बीच सांठ-गांठ : महेश गागड़ा.   उरपालपारा के जंगल में बनाये गये नक्सली स्मारक को जवानों ने किया ध्वस्त.   महिला कांग्रेस की शहर अध्यक्ष सरला तिवारी ने किया भाजपा प्रवेश.  
भूजल स्तर नीचे जाने से ठप पड़ी नल जल योजना
dhamtari, Tap water scheme ,ground water level

धमतरी। ग्राम पंचायत नवागांव (थूहा) में जलसंकट गहरा गया हैं। भीषण गर्मी में यहां पानी की समस्या लगातार बनी हुई है। ग्रामीणों द्वारा लगातार जलसंकट के लिए सरपंच के पास आवेदन लगाया जा रहा है। लेकिन समस्या का समाधान नहीं हो रहा है।

 

शकुन यादव, शुलताना यादव ने बताया कि पानी की समुचित व्यवस्था नहीं होने के कारण इसी पानी को पीने में विवश हैं। ग्राम की महिलाएं सुमित्रा साहू, गंगाबाई, कविता साहू, टिकेश्वरी साहू, जमयंतीन बाई, सविता साहू ने पानी की भारी समस्या है।सरपंच प्रतिनिधि मनीष साहू एवं सरपंच सरोज जयराम साहू ने बताया कि हमारे ग्राम नवागांव में भूजल स्तर काफी नीचे होने के कारण पूरे वर्ष जलसंकट बना रहता है। गांव में लगे नलजल योजना भी भूजल स्तर नीचे होने के कारण पूर्ण रूप से ठप है।

 

सरपंच सराेज जयराम साहू ने बताया कि गांव का जलसंकट दूर करने कलेक्ट्रेट , अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग कुरूद में लगातार आवेदन कर रहा हूं। साथ ही समस्या से अवगत करा रहा हूं, लेकिन अभी तक कोई भी अधिकारी, कर्मचारी, शासन-प्रशासन इस ओर ध्यान नहीं दे रहा है। नवागांव में स्वच्छ पेयजल की यह समस्या बहुत ही विकट है। क्योंकि यहां लगभग 50 लाख की लागत से पानी टंकी बना है और वहीं बोर खनन किया गया है। जिसमें पानी उपलब्ध नहीं है और गिने चुने हैंडपंप से ही 10 से 20 गुंडी ही पानी निकल पाता है। उसी में काम चलाने ग्रामीण महिलाएं विवश हैं।गांव में कुल 27 हैंडपंप हैं। सात पूरी तरह से बंद है। वहीं 10 हैंडपंप में पीला निशान लगा हुआ है,जिसमे का पानी पीने लायक नहीं है। उसके बाद भी उस पानी को मजबूरी में उपयोग के लिए लाया जा रहा है। वहीं 10 हैंडपंप हांफ रहे है, जिनसे लोग पानी लेते हैं। 10 से 20 बाल्टी पानी भरने के बाद हांफने लगते हैं। तालाब का पानी निस्तारी के लिए उपयोग में लाया जा रहा हैं। नहर किनारे नाला हैं। उसी से लगा हुआ शासकीय जमीन में बोर खनन किया जाए तो वहां पर्याप्त पानी मिल सकता है, क्योंकि वहां पर पानी की जांच की जा चुकी है। वहीं 500 मीटर समीप में बोर में वर्तमान में पानी उपलब्ध है।सरपंच सरोज जयराम साहू का कहना हैं कि बोर खनन के बाद भी पानी नहीं मिलता। मुख्य नहर से फिल्टर लगाकर गांव में पानी दिया जाए। जलसंसाधन विभाग एवं पीएचई विभाग द्वारा ग्राम पंचायत को आदेशित किया जाए तब पंचायत द्वारा फिल्टर लगाकर पाइप लाइन के माध्यम से गांव में पानी की समस्या दूर की जा सकती है।

 

 

तत्काल बोर खनन किया जाएगा

वहीं इस मामले में पीएचई विभाग के इंजीनियर मनोज कुमार पैकरा का कहना है कि ग्राम नवागांव में बोर सक्रिय नहीं होने के कारण से पानी की समस्या लगातार बनी हुई है। अगर ग्राम के सरपंच पानी के स्रोत देखते हुए जगह बताते हैं तो तत्काल बोर खनन किया जाएगा, जिससे ग्रामीणों को इस समस्या से निजात मिले।

MadhyaBharat 30 May 2023

Comments

Be First To Comment....
Video

Page Views

  • Last day : 8641
  • Last 7 days : 45219
  • Last 30 days : 64212


x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved ©2024 MadhyaBharat News.