Since: 23-09-2009

  Latest News :
मणिपुर में 3.5 तीव्रता का भूकंप.   दार्जिलिंग में लिकुवीर के पास एनएच-10 बंद.   जम्मू-कश्मीर से आतंकवाद के सफाये के लिए कोई कोर कसर नहीं छोड़ेगी सरकार: केन्द्रीय गृह मंत्री शाह .   बाबा के जयकारों से गूंज उठा कैंची धाम.   नार्काे-आतंकवादी मॉड्यूल का भंडाफोड़.   गाजियाबाद के लोनी स्थित पॉलिथीन बनाने की फैक्टरी में भीषण आग.   पिता परिवार की नींव, हमारी बुनियाद हैं .   जल गंगा संवर्धन अभियान को मिला अपार जनसहयोग : मुख्यमंत्री डॉ यादव.   दाऊदी बोहरा समाज ने मनाया ईद का पर्व, मस्जिदों में हुई विशेष नमाज.   एक साथ कॉम्बिंग पर निकले 15 हजार से अधिक पुलिसकर्मी.   कांग्रेस आउट सोर्स प्रकोष्ट का सरकार के खिलाफ हल्लाबोल आंदोलन.   ऐतिहासिक भोजशाला में 85वें दिन भी जारी रहा एएसआई का सर्वे.   भीम रेजीमेंट के रायपुर संभाग का अध्यक्ष जीवराखन बांधे गिरफ्तार.   कांग्रेस व भाजपा ने सतनामियों को सिर्फ प्रताड़ित किया : अमित जोगी.   संघर्ष के दिनों की यादें साथ लेकर मुख्यमंत्री से मिलने आए जशपुर के अनेर सिंह.   नक्सल मुठभेड़ में घायल जवान ने कहा ठीक होते ही और मारूंगा.   मुख्यमंत्री साय ने तीसरे दिन भी ली विभिन्न विभागों की समीक्षा बैठक.   बलौदाबाजार हिंसा पर जस्टिस गौतम भादुड़ी ने लिया स्वतः संज्ञान.  
प्रदेश के कई जिलों में प्री मानसून की बारिश
raipur, Pre-monsoon rain ,many districts

रायपुर।बुधवार शाम को राजधानी रायपुर सहित प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में मौसम का मिजाज बदल गया और तेज हवाओं के साथ बारिश होने लगी। ठंडी हवाओं और बारिश के चलते शाम का मौसम सुहाना हो गया और गर्मी से राहत मिली। प्रदेश के कई जिलों में प्री मानसून की बारिश हो रही है। मौसम विभाग ने अगामी दिनों में प्रदेश के अधिकतम तापमान में 2-3 डिग्री बढ़ोत्तरी होने की संभावना बताई है। कुछ जगहों पर गरज चमक के साथ बारिश का अलर्ट भी है।

 

 

छत्तीसगढ़ में 12 से 15 जून के दौरान मानसून के आने की भविष्यवाणी रायपुर मौसम विभाग ने की है। अभी मध्य और दक्षिण भारतीय राज्यों में बने सिस्टम की वजह से छत्तीसगढ़ में प्री मानसून की बारिश हो रही है। जिससे प्रदेश का मौसम सुहाना हो गया है।

 

मौसम विशेषज्ञ एचपी चंद्रा ने बताया कि एक निम्न दाब का क्षेत्र दक्षिण पश्चिम बंगाल की खाड़ी और उससे लगे पश्चिम मध्य बंगाल की खाड़ी, दक्षिण आंध्र प्रदेश तट के पास है। साथ ही चक्रीय चक्रवाती परिसंचरण 7.6 किमी ऊंचाई तक विस्तारित है। यह उत्तर पश्चिम बंगाल की खाड़ी के ऊपर 25 मई की शाम तक पहुंचने की संभावना है। इसके प्रभाव से ही 27 व 28 मई को प्रदेश में गर्मी और बढ़ने की संभावना है।बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र बन रहा है। इसके चलते चक्रवाती परिसंचरण का निर्माण हो रहा है। इसके प्रभाव के चलते ओडिशा के तटवर्ती इलाकों के साथ ही पश्चिम बंगाल और तटीय आंध्र के मौसम में परिवर्तन आ सकता है। मौसम विज्ञानियों ने 70 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने और बारिश होने की संभावना जताई है।

 

प्रदेश के मौसम में पिछले 3-4 दिनों से बदलाव देखने को मिल रहा है। इस वजह से प्रदेश में उमस और गर्मी बढ़ गई है। बुधवार को प्रदेश में सर्वाधिक अधिकतम तापमान बेमेतरा में 43.3 डिग्री दर्ज किया गया। प्रदेश के जिलों में अधिकतम तापमान 36 डिग्री से लेकर 43.3 डिग्री तक बना हुआ है। अगले 24 घंटों में छत्तीसगढ़ के अधिकतम तापमान में कोई खास बदलाव नहीं होगा।अगले 2-3 दिनों में प्रदेश के एक दो जगहों पर गरज चमक के साथ हल्की बारिश , साथ ही गरज चमक के साथ आकाशीय बिजली गिरने और अंधड़ चलने की भी चेतावनी है।

MadhyaBharat 23 May 2024

Comments

Be First To Comment....
Video

Page Views

  • Last day : 8641
  • Last 7 days : 45219
  • Last 30 days : 64212


x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved ©2024 MadhyaBharat News.