Since: 23-09-2009

  Latest News :
कोलकाता के न्यू टाउन में मिला बांग्लादेश के लापता सांसद का शव.   भोजपुरी स्टार पवन सिंह भाजपा से निष्कासित.   घोर साम्प्रदायिक घोर जातिवादी और घोर परिवारवादी है विपक्षी गठबंधनः नरेन्द्र मोदी.   कांग्रेस ने सेना को कमजोर किया उपकरणों में भी घोटाले किए: राजनाथ सिंह.   ऐसी कोई ताकत नहीं, जो पीओके को भारत का हिस्सा बनने से रोक सके : अमित शाह.   आलमगीर आलम एक बार फिर ईडी के पांच दिनों की रिमांड पर.   चंद्रमा का भी होता है नामकरण, बुद्ध पूर्णिमा का चांद ‘फ्लावर मून’ कहलाएगा.   शील नागू बने मध्यप्रदेश हाई कोर्ट के नए एक्टिंग चीफ जस्टिस.   पुणे हिट एंड रन मामले में कोर्ट के फैसले पर राहुल गांधी का कटाक्ष.   इंडी गठबंधन वाले चोर-चोर मौसेरे भाई : शिवराज.   कागजों में खरीद लिया 13 ट्रक गेहूं जिला प्रबंधक निलंबित.   मप्र नर्सिंग कॉलेज घोटाला सीबीआई इंस्पेक्टर राहुल राज बर्खास्त.   सरकार पीड़ित परिवारों के साथ करेगी हरसंभव मदद : केदार कश्यप.   पटरी पर लेटे युवक की ट्रेन गुजरते ही मौत.   मारपीट के विरोध में सफाई कर्मी हड़ताल पर.   बेटे को करंट लगाने के बाद गला घोंटा.   ट्रैक्टर ने दंपति को कुचला.   आईटीबीपी जवान जवान को ड्यूटी के दौरान सर्विस राइफल से लगी गोली.  
मध्य प्रदेश की संविदा स्वास्थ्य कर्मी एएनएम बहनों का भविष्य दांव पर: कमलनाथ
bhopal,  contract health worker ANM ,Kamal Nath

भोपाल। मध्य प्रदेश में संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर सोमवार को धरने पर बैठे है। भोपाल में संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी ने एएनएम की भर्ती के लिए जारी विज्ञापन में विसंगति से नाराज होकर स्वास्थ्य मंत्री के घर के बाहर धरना दिया और नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया। इसको लेकर पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने सरकार से एएनएम की भर्ती परीक्षा के नियमों में अविलंब संशोधन जारी करने की मांग की है।

 

कमलनाथ ने सोमवार को सिलसिलेवार ट्वीट कर सरकार से कहा मध्यप्रदेश सरकार को एएनएम की भर्ती परीक्षा के नियमों में अविलंब संशोधन जारी करना चाहिए। भर्ती परीक्षा का जो विज्ञापन जारी किया है उसके कारण मध्य प्रदेश की 7000 संविदा स्वास्थ्य कर्मी एएनएम बहनों का भविष्य दांव पर है। वे अपनी न्यायपूर्ण मांगों को लेकर आंदोलनरत हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी यह वही एएनएम बहने हैं जिन्हें आपने कोरोना योद्धा बताया था। यह संविदा स्वास्थ्य एएनएम बहनें पिछले 10 से 15 वर्ष से मध्य प्रदेश की जन स्वास्थ्य व्यवस्था का अभिन्न अंग है। एक तरफा भर्ती नियमों के कारण इनकी रोजी-रोटी पर संकट आ गया है।

 

कमलनाथ ने कहा मेरी, छिंदवाड़ा की एएनएम बहनों से इस संबंध में मुलाकात हुई थी और वे न्यायालय की शरण में गई थी। इस संबंध में माननीय उच्च न्यायालय के निर्देश पर छिंदवाड़ा की एएनएम बहनों को परीक्षा की अनुमति दी गई है। सरकार न्यायालय के इस आदेश को प्रदेश की सभी एएनएम बहनों पर लागू करते हुए भर्ती विज्ञापन में संशोधन करे ताकि सभी एएनएम बहनों को नियमित पदों में परीक्षा देने का मौका मिल सके।

MadhyaBharat 27 March 2023

Comments

Be First To Comment....
Video

Page Views

  • Last day : 8641
  • Last 7 days : 45219
  • Last 30 days : 64212


x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved ©2024 MadhyaBharat News.