Since: 23-09-2009

  Latest News :
कांग्रेस के पांच-छह विधायकों को किडनैप कर हरियाणा ले गई भाजपा : सुक्खू.   ईडी ने केजरीवाल को भेजा आठवां समन.   लोकसभा चुनाव के पहले ही हार मान चुका है विपक्ष : प्रधानमंत्री.   नेशनल कॉन्फ्रेंस इंडिया गठबंधन के साथ कांग्रेस से होगी सीट शेयरिंग : फारूक अब्दुल्ला.   राज्यसभा चुनाव : 15 में से 10 भाजपा उम्मीदवार जीते.   गायक पंकज उधास का निधन.   भाजपा का परिवार लगातार बढ़ रहा पार्टी देश में 370 से अधिक सीटें जीतेगी: मुख्यमंत्री डॉ. यादव.   भोपाल सहित 6 नगरीय निकायों में चलेंगी 552 ई-बसें.   मप्र: जीतू पटवारी का तंज बोले- पर्ची से निकले मुख्यमंत्री से नही संभल रहा प्रदेश.   ग्वालियर-चंबल अंचल में बुधवार को बूंदाबांदी की संभावना.   इंदौर रोड पर बस-डंपर से टकराई.   कूनो में सफल हुआ है चीतों का पुनर्स्थापन: केंद्रीय मंत्री.   दंतेवाड़ा के किंरदुल एनएमडीसी खदान में धंसी चट्टान चार मजदूरों की मौत.   मीसाबंदियों की सम्मान निधि फिर शुरू होगी- मुख्यमंत्री साय.   एक शैक्षणिक सत्र में दो बार होगी बोर्ड की परीक्षाएं, आदेश जारी.   सदन में उठा कवर्धा दोहरे हत्याकांड का मामला विपक्ष ने कहा कानून व्यवस्था गंभीर.   बड़े भाई ने छोटे भाई की गोली मार कर की हत्या.   नवविवाहिता की आग से जलकर मौत.  
भ्रष्टाचार में ही पारदर्शी है भूपेश सरकार : रविशंकर प्रसाद
raipur, Bhupesh government, Ravi Shankar Prasad

रायपुर। भाजपा नेता व पूर्व केंद्रीय मंत्री रविशंकर ने शुक्रवार को छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के एकात्म परिसर स्थित भाजपा कार्यालय में पत्रकार वार्ता को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने छत्तीसगढ़ सरकार के घोटालों को लेकर जमकर हमला बोला और कहा कि हमने छत्तीसगढ़ में चल रहे घोटालों की स्टडी की है।

रविशंकर ने कहा कि भाजपा की ओर से हम इसको बहुत प्रभावी ढंग से उठाएंगे और मुख्यमंत्री बघेल को इसका जवाब देना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि बघेल भ्रष्टाचार में सब पर ट्रस्ट नहीं करते। जो उनके सबसे नजदीकी हैं, वही बैटिंग करेंगे। बात जब कोयला घोटाले की आई तो पता चला कि उनके कार्यालय की सबसे करीबी उपसचिव जेल में हैं। दो-दो कलेक्टर जेल में हैं। बाकी काफी लोग भी जेल में हैं। प्रसाद ने कहा कि छत्तीसगढ़ कोयला की खान है। केंद्र की राजग सरकार के कार्यकाल में यह योजना बनाई गई थी कि कोयला खदानें नीलामी की प्रक्रिया से आवंटित करना है ताकि इसमें पारदर्शिता आए। लेकिन प्रदेश की भूपेश सरकार ने उसको भी बदल दिया। कैसे बदला गया, यह पूरे प्रदेश ने देखा कि कहाँ-कहाँ इसका कितना 'कट' जाता था। पूरा सिस्टम ही बदल डाला।

भाजपा नेता रविशंकर ने कहा कि छत्तीसगढ़ में भ्रष्टाचार में भी पूरी ईमानदारी बरती गई है। 500-600 करोड़ रुपये के कोयला घोटाला के बाद जब एक्साइज घोटाले के बारे में जानने की कोशिश की गई तो वहाँ तो और कमाल सामने आया। डुप्लीकेट होलोग्राम बन गया। कांग्रेस मीडिया विभाग के राष्ट्रीय अध्यक्ष पवन खेड़ा उस बयान पर, जिसमें कहा गया है कि प्रदेश सरकार शराबबंदी के लिए प्रतिबद्ध है और यह चरणबद्ध पूरी की जाएगी, कटाक्ष करते हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि यह तो भूपेश सरकार की ऑफिशियल लाइन है। पाँच साल हो गए, प्रदेश सरकार ने एक कदम तक नहीं उठाया तो अब कब उठाएगी? दरअसल प्रदेश की कांग्रेस सरकार कभी कदम नहीं उठाने वाली थी । यह प्रदेश सरकार के लिए नोट कमाने वाली मशीन है। कोयला घोटाला की तरह ही शराब घोटाला में भी किसी को जमानत नहीं मिली है। प्रदेश सरकार के गौठान और गोबर घोटाला देखकर बिहार के चारा घोटाला की याद ताजा हो गई। मुख्यमंत्री ने स्व. अजीत जोगी से अच्छी तरह सीखा है। स्व. जोगी भी दिल्ली को फिट रखते थे और मुख्यमंत्री बघेल की देखरेख में तो एटीएम ही खुला हुआ है। मुख्यमंत्री की ईटिंग-कटिंग-सैटिंग काफी हद तक स्व. जोगी के ढर्रे पर ही चलती है।

भाजपा नेता रविशंकर ने कहा कि मुख्यमंत्री बघेल के कैण्डी क्रश खेलते वायरल चित्र के मामले में कहा कि कहीं तो एकाध जगह छोड़नी चाहिए। मुझे मालूम नहीं था कि कैण्डी क्रश कोई गेमिंग एप होता है। प्रसाद ने सवाल किया कि मुख्यमंत्री को गेमिंग एप से इतना प्यार क्यों है? जब इस मामले की तहकीकात की जा रही थी, तब महादेव एप की कहानी सामने आई। महादेव एप से जुड़ा भिलाई का एक नवजवान दुबई में अपनी शादी पर 200 करोड़ रुपये खर्च कर रहा है। महादेव एप के एक भक्त मुख्यमंत्री के काफी नजदीकी हैं। तो अब समझ में आया कि भूपेश को गेमिंग एप से इतना प्यार क्यों है, जो अपनी पार्टी की बैठक में भी कैंडी क्रश खेलते हैं।

रविशंकर ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश को यूपीए के अनुभवों से सीख लेनी थी। कोयला घोटाला, कॉमनवेल्थ घोटाला, टू-जी, थ्री-जी स्पेक्ट्रम घोटाला, आदर्श घोटाला। आज सब जेल में हैं, परेशान हैं और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को भी घोटालों में अपने बचाव के लिए सुप्रीम कोर्ट में पिटीशन फाइल करनी पड़ी है। प्रसाद ने कहा कि हम साफ-साफ कहना चाहते हैं, हमारी सरकार बन रही है, जितना ये प्रचार-कुप्रचार कर लें, जिस तरह अजीत जोगी हारे थे, उससे बड़ी हार इस बार भूपेश सरकार की होगी और इन तमाम घोटालेबाजों को भाजपा की सरकार छोड़ने वाली नहीं है।

भूपेश बघेल को प्रधानमंत्री आवास से क्यों चिढ़ है?

भाजपा नेता व पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रसाद ने सवाल किया कि मुख्यमंत्री बघेल को प्रधानमंत्री आवास से क्यों चिढ़ है? यह तो गरीबों के लिए है। केवल 'प्रधानमंत्री' लिखे होने के कारण प्रदेश सरकार ने गरीबों का आवास रोक दिया। धान-चावल खरीद को लेकर प्रदेश सरकार व कांग्रेस के बयानों पर पलटवार करते हुए उन्होंने स्पष्ट किया कि यह भाजपा की केंद्र सरकार का कमिटमेंट है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घोषणा कर दी है कि पूरा धान खरीदेंगे, कोई दिक्कत नहीं रहेगी। मुख्यमंत्री की राम-भक्ति को ढोंग बताते हुए रविशंकर ने कहा कि भूपेश के पिता का राम के प्रति कितना प्यार है, यह तो छत्तीसगढ़ और देश की जनता जानती है। बड़ा सवाल यह है कि जब सनातन का अपमान किया गया, जब सनातन की तुलना डेंगू, एड्स, मलेरिया और छुआछूत के रोग से की गई, जब बिहार के मंत्री रामायण की चौपाई पढ़ना और पोटेशियम साइनाइड खाने को एक समान बता रहे थे। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे के पुत्र सनातन का अपमान कर रहे थे, तब मुख्यमंत्री क्यों चुप थे? सनातन स्थायी है, सनातन शाश्वत है। सनातन इसलिए शाश्वत है क्योंकि भगवान श्रीराम माँ शबरी के झूठे बेर खाते हैं, सनातन इसलिए प्रभावी है क्योंकि रामायण के रचयिता महर्षि वाल्मीकि की जाति कुछ भी हो, वह हमारे लिए देव हैं, सनातन इसलिए प्रामाणिक है क्योंकि वेद व्यास, जिन्होंने वेदों की रचना की, उनकी माता मल्लाह समाज की थीं। संत रविदास में चर्मकार का काम करके भी उनमें इतना बड़ा संतत्व था कि सँन्यासी उनके पैर छूते थे।

भाजपा नेता प्रसाद ने जातिगत जनगणना को कांग्रेस की शिगूफेबाजी बताते हुए सवाल दागा है कि यदि जातिगत जनगणना होगी तो जिसकी जितनी संख्या भारी, उसकी उतनी हिस्सेदारी वाली बात कांग्रेस के अंदर लागू होगी या नहीं होगी? कांग्रेस में यह नहीं चलेगा क्योंकि वहाँ 'एक परिवार' की चलेगी, बिहार में लालू यादव, वह जेल गए तो राबड़ीदेवी सीएम, बेटे तेजस्वी, बेटी मीसा भारती लोकसभा हार गईं तो राज्यसभा में भेज दिया, एक और बेटे तेजप्रताप को भी टॉफी थमाई गई है। उत्तर प्रदेश में मुलायम सिंह के बाद अखिलेश यादव, प. बंगाल में ममता के बाद अब भतीजे की बारी। आखिर यह छलावा कब तक और क्यों चलेगा? प्रसाद ने कहा कि हमें इस बात का गर्व है कि भाजपा ने ईमानदारी से पिछड़ों, दलितों, आदिवासियों सभी वर्गों के उत्थान का काम किया है। आदिवासी समाज की सम्माननीय महिला द्रौपदी मूर्मू को, दलित नेता रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति भाजपा ने बनाया।

पत्रकार वार्ता के दौरान सांसद सुनील सोनी, भाजपा चुनाव मीडिया प्रमुख व विधायक सिद्धार्थनाथ सिंह, प्रदेश प्रवक्ता अशोक बजाज, प्रदेश मीडिया प्रभारी अमित चिमनानी व सह प्रभारी अनुराग अग्रवाल उपस्थित थे।

MadhyaBharat 14 October 2023

Comments

Be First To Comment....
Video

Page Views

  • Last day : 8641
  • Last 7 days : 45219
  • Last 30 days : 64212


x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved ©2024 MadhyaBharat News.