Since: 23-09-2009

  Latest News :
विकसित भारत के लिए विकसित तमिलनाडु का दृष्टिकोण भाजपा का संकल्पः मोदी.   इस साल भारत में \'सामान्य से अधिक\' मानसून रहने की संभावना.   समाजवादी पार्टी का मुसलमानों से कोई सरोकार नहीं : मायावती.   80 बनेगा आधार, एनडीए करेगा 400 पार : योगी आदित्यनाथ.   केजरीवाल की गिरफ्तारी को चुनौती वाली याचिका पर ईडी को ‘सुप्रीम’ नोटिस.   बाबा साहब के सपनों को साकार करने वाली सरकार चुनें : मायावती.   मैडम सोनिया- राहुल गांधी ने मैदान छोड़ दिया : शिवराज.   खजुराहो में इंडिया गठबंधन ने फारवर्ड ब्लाक के प्रत्याशी आरबी प्रजापति को दिया समर्थन.   इस बार का चुनाव रामद्रोहियों और राम के पक्षधरों का चुनाव है: मुख्यमंत्री डॉ. यादव.   जीतू ने कसा तंज भाजपा ने चंदे को धंधा बनाया.   भाजपा प्रत्याशी की शिकायत पर कमलनाथ के पीए पर केस दर्ज.   प्रदेश में सबसे ज्यादा अपराध आदिवासी वर्ग पर हो रहे हैं: जीतू पटवारी.   छत्तीसगढ़ के शराब घोटाले मामले में ईडी फिर एक्शन की तैयारी में.   मवेशियों का सड़क में डेरा बढ़ी दुर्घटना की आशंका.   राज्यपाल हरिचंदन उड़िया नव वर्ष उत्सव में शामिल हुए.   एक लाख के इनामी नक्सली के साथ सात नक्सली गिरफ्तार.   सड़क दुर्घटना में दो सगे भाइयों समेत तीन युवकों की मौत.   मैनपाट में घर में लगी आग की चपेट में आकर तीन बच्चे जिंदा जले.  
कांग्रेस और नक्सलियों के बीच सांठ-गांठ : महेश गागड़ा
bejapur, Congress and Naxalites, Mahesh Gagda

बीजापुर। लोकसभा चुनाव नजदीक आते ही एक बार फिर बस्तर संभाग के नक्सल प्रभावित इलाकों में भाजपा नेताओं पर नक्सली हमला तेज हो गया है। दो दिन पहले बीजापुर में भाजपा नेता तिरूपति कटला की नक्सलियों ने हत्या कर दी थी। पूर्व मंत्री महेश गागड़ा ने रविवार को कांग्रेस पर गंभीर आरोप लगाते हुए भाजपा नेता तिरूपति कटला की हत्या को टारगेट किलिंग बताया है। उन्होंने दावा किया है कि तिरूपति की हत्या के दौरान नक्सलियों ने लाल सलाम के नारों के साथ कांग्रेस जिंदाबाद के नारे भी लगाए थे। उन्होंने कहा कि नक्सलियों द्वारा कांग्रेस जिंदाबाद के नारे के बाद अब वे तिरूपति की हत्या की एनआईए से जांच की मांग करेंगे।

बीजापुर के पूर्व विधायक व मंत्री महेश गागड़ा ने कहा कि वह राज्य के गृहमंत्री से भाजपा नेताओं की टारगेट किलिंग की घटनाओं की जांच एनआईए (राष्ट्रीय जांच एजेंसी) से कराने की मांग करेंगे। गागड़ा ने कहा कि मैंने उनके परिवार के सदस्यों और हत्या के चश्मदीदों से बात की है। उन्होंने बताया कि हत्या करने के बाद नक्सलियों ने कांग्रेस जिंदाबाद और लाल सलाम जिंदाबाद के नारे लगाए हैं। उन्होंने कहा कि यह एक टारगेट किलिंग थी। उनके परिवार के सदस्यों ने यह भी कहा कि उन्हें पिछले साल विधानसभा चुनाव से पहले धमकी दी गई थी।

उन्होंने कहा कि मैंने राज्य के वन मंत्री केदार कश्यप को इसके बारे में सूचित कर दिया है। पिछले कुछ वर्षों से भाजपा के नेताओं को निशाना बनाया जा रहा है और उनकी हत्या की जा रही है। यह घटनाएं राजनीतिक हत्याएं थीं और इसे नक्सली घटना बताने की कोशिश की जा रही है। कांग्रेस नेताओं और नक्सलियों के बीच सांठ-गांठ का आरोप लगाते हुए गागड़ा ने दावा किया कि कांग्रेस नेताओं और नक्सलियों के निचले स्तर के सदस्यों के बीच पहले भी गहरा संबंध देखा गया है। हम इन सभी मुद्दों को राज्य के गृह मंत्री के समक्ष उठाएंगे और इसकी एनआईए जांच की मांग करेंगे।

 

वहीं मंत्री केदार कश्यप ने कहा कि बीजापुर एसपी से घटना की जांच कर रिपोर्ट सौंपने को कहा है। इससे पहले उपमुख्यमंत्री और गृह मंत्री विजय शर्मा ने हत्या को लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा कार्यकर्ताओं के मन में डर पैदा करने के इरादे से किया गया कायरतापूर्ण कृत्य करार दिया था। गृह मंत्री विजय शर्मा ने कहा कि इससे पहले भी भाजपा के नेताओं को निशाना बनाया गया था, वे डर पैदा करना चाहते हैं। क्योंकि लोकसभा चुनाव नजदीक है और नक्सलियों के खिलाफ कार्रवाई तेज कर दी गई है। इसलिए दहशत फैलाने के लिए इस वारदात को अंजाम दिया गया है, ताकि भाजपा के कार्यकर्ता अंदरूनी क्षेत्र में न जा सके।

 

गौरतलब है कि बीजापुर जिले में सत्तारूढ़ भाजपा के जिला स्तर के नेता और जनपद पंचायत के सदस्य तिरुपति कटला का शुक्रवार की रात को तोयनार गांव में एक विवाह समारोह में शामिल होने गए थे, इस दौरान नक्सलियों ने यहां उनकी हत्या कर दी थी। पिछले एक साल में नक्सल प्रभावित इलाकों में नक्सलियों द्वारा किसी भाजपा नेता की यह 09वीं हत्या थी।

MadhyaBharat 3 March 2024

Comments

Be First To Comment....
Video

Page Views

  • Last day : 8641
  • Last 7 days : 45219
  • Last 30 days : 64212


x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved ©2024 MadhyaBharat News.