Since: 23-09-2009

  Latest News :
विवादित प्रशिक्षु आईएएस पूजा खेडकर की मां मनोरमा खेडकर गिरफ्तार.   पश्चिम बंगाल में मुहर्रम पर लहराया गया फिलिस्तीन का झंडा.   केरन सेक्टर की नियंत्रण रेखा पर घुसपैठ नाकाम मार गिराए गए दो आतंकवादी.   सीबीआई ने नीट-यूजी पेपर लीक केस में एम्स के तीन मेडिकल छात्रों को हिरासत में लिया.   जेपी नड्डा ने देशव्यापी अभियान \'एक पेड़ मां के नाम\' के अंतर्गत लगाया पौधा.   सिक्किम के लापता पूर्व मंत्री रामचंद्र पौड्याल का शव बांग्लादेश में मिला.   सिंगराैली हत्याकांड मामले ने पकड़ा तूल.   एक बार फिर अपने ट्वीट से सुर्खियों में IAS नियाज खान.   भोपाल में तेज बारिश से सड़कें बनी तालाब.   अधारताल इंडस्ट्रियल एरिया में कबाड़ गोदाम में विस्फोट.   मंत्री राधा सिंह पर आरोप.   मुख्यमंत्री से नहीं संभल रहे 2 पद.   आईईडी ब्लाॅस्ट में दाे जवानों के बलिदान हाेने पर सीएम साय ने जताया दुख.   डायरिया से किशोर व दो बुजुर्ग सहित तीन की मौत मचा हड़कंप.   तेज रफ्तार कार फ्लाईओवर से 30 फीट नीचे गिरी.   सर्प दंश से आदिवासी समाज के सगे भाई-बहन की मौत.   बिलासपुर में मिला कोरोना पॉजिटिव मरीज.   छत्तीसगढ़ में नक्सल प्रभावित बीजापुर में आईईडी ब्लास्ट दो जवान शहीद.  
आफताब मियां उर्फ आफताब आलम गिरफ्तार
आफताब मियां उर्फ आफताब आलम गिरफ्तार

आफताब मियां पर 50 हजार रुपये का था इनाम

 

भिलाई से बिहार के सिवान जिले में एक  काफिले पर एके-47 से फायरिंग करने के आरोपित को  पुलिस ने गिरफ्तार किया  है। आरोपित आफताब मियां उर्फ आफताब आलम बीते 15 दिनों से यहां पर रह रहा था। आफताब मियां पर 50 हजार रुपये का इनाम घोषित किया था।आफताब मियां, सिवान के बाहुबली सांसद रहे शहाबुद्दीन का सहयोगी बताया जा रहा है।  बिहार पुलिस और एसटीएफ ने जामुल पुलिस के सहयोग से आफताब आलम को ढौर से गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि  सिवान जिला के ग्राम चांप पश्चिम टोला पंचरुक्खी निवासी आफताब मियां उर्फ आफताब आलम पर पंचरुक्खी विधानसभा के पूर्व प्रत्याशी रहे रईस खान के काफिले पर एके-47 से फायरिंग करने का आरोप है। उक्त फायरिंग में एक व्यक्ति की जान भी गई थी। आपको बता दें जामुल थाना पुलिस की मदद से पुलिस ने ग्राम ढौर में आफताब के रिश्तेदारों के घर पर छापामार कार्रवाई की और आफताब आलम को गिरफ्तार किया गया। आफताब आलम, सीवान के बाहुबली सांसद शहाबुद्दीन का सहयोही रह चुका है। बीते विधानसभा चुनाव में वो भारतीय पंंचायत पार्टी से पंचरुक्खी विधानसभा का चुनाव भी लड़ चुका है।वहीं रिश्तेदारों ने बताया कीं आफताब आलम कोई अपराधी नहीं, बल्कि समाजसेवी है। बिहार पुलिस और बिहार एसटीएफ से आफताब आलम के जान को खतरा भी बताया है।

MadhyaBharat 31 July 2022

Comments

Be First To Comment....
Video

Page Views

  • Last day : 8641
  • Last 7 days : 45219
  • Last 30 days : 64212


x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved ©2024 MadhyaBharat News.