Since: 23-09-2009

  Latest News :
डकैत बबुली को पुलिस ने नहीं उसके साथी ने ही मारा.   लड़ाकू विमान तेजस में उड़े रक्षामंत्री राजनाथ सिंह.   अयोध्या मसले पर 18 अक्टूबर तक पूरी हो सुनवाई.   क्या अब मुख्यमंत्री कमलनाथ जायेंगे जेल.   बालाकोट में सीजफायर का किया उल्लंघन.   अठावले की पकिस्तान को नसीहत .   मंत्री श्री शर्मा ने सफाई दिवस पर लगाई झाड़ू.   संत हिरदाराम जी की कुटिया में जनसंपर्क मंत्री श्री शर्मा ने लिया आशीर्वाद.   मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ द्वारा जबलपुर में पोषण आहार प्रदर्शनी का अवलोकन.   प्रदेश में चिकित्सा क्षेत्र में उच्च-स्तरीय सुविधाएँ विकसित की जाएंगी.   भाजपा ने दिया कांग्रेस भगाओ प्रदेश बचाओ का नारा.   शिक्षिकाओ ने DPC के खिलाफ थाने में दर्ज कराई शिकायत.   छत्तीसगढ़ के स्कूल शिक्षा मंत्री का बेतुका बयान.   गौठान में गायों की मौत के बाद शुरू हुई सियासत.   युवाओं को नशे से बचाने के लिए अभियान.   केएसके बिजली उत्पादक कंपनी में ताला.   अपनी ही सरकार के खिलाफ उद्योग मंत्री लखमा.   बस्तर मे बाहरी नक्सलियों का जमावाडा.  

देश की खबरें

DAKAIT  BABULI

पुलिस एनकाउंटर की कहानी झूठी निकली डाकू की मौत पर पुलिस ने खुद थपथपाई थी अपनी पीठ   डकैत बबुली और उसके साथी लवलेश के पुलिस एनकाउंटर की कहानी फर्जी है |  इन दोनों डाकुओं को  इनके साथियों  ने  मौत के घाट उतारा था जिसका श्रेय मध्यप्रदेश पुलिस लेने में लगी है |  इस  घटना से पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान लग गए हैं |  विंध्य के कुख्यात डकैत बबुली और लवलेश कोल को पुलिस ने नहीं उसी के साथियों ने मार दिया था |  इन दोनों के मरने की खबर के बाद पुलिस ने जंगल से डकैतों की लाश बरामद कर इन्हें एनकाउंटर में मारने का दावा किया था |  लेकिन बबुली कोल को मारने वाले डकैत सोहन कोल ने खुलासा किया कि इन दोनों को उसने और उसके साथियों ने मारा |  बबुली और लवलेश की मौत के बाद मध्यप्रदेश पुलिस खुद अपनी पीठ थपथपा रही थी |  इस मामले में  रीवा IG चंचल शेखर  की बताई कहानी की एक डाकू ने ही हवा निकाल दी है |  चंचल शेखर पर पहले भी भिंड में  फर्जी एनकाउंटर के आरोप लगे हैं |  इसी बीच चित्रकूट पुलिस टीम द्वारा पकड़े गए एक लाख के इनामी डाकू सोहन कोल ने यह कहकर हडकंप मचा दिया कि उसने अपने साथियों के साथ मिलकर सरगना बबुली और लवलेश को गोलियों से भून दिया था |   इसके बाद वह भाग गए थे |   डाकू के इस दावे के बाद  मध्यप्रदेश  पुलिस अधिकारियों की बोलती बंद हो गई है और यूपी पुलिस भी डकैत सोहन की बात को सच मान रही हैं |  पहले सोहन कोल को सुनिए |  सूत्र बताते हैं गैंग सरगना बबुली कोल और लवलेश को मारने के बाद लाली कोल ने पुलिस के सामने समर्पण कर दिया था  और सोहन अपने दो साथियों के साथ कुछ हथियार लेकर भाग गया था |  एक लाख के इनामी सोहन कोल को यूपी की चित्रकूट पुलिस ने मानिकपुर के कल्याणपुर के जंगल में मुठभेड़ के बाद एक राइफल संग दबोच लिया |  मौके से एक डकैत भाग निकला  |  सोहन की निशानदेही पर जंगल से दो  सेमी  ऑटो राइफल, सौ से ज्यादा कारतूस और 20 हजार रुपये की नगदी बरामद की गई पुलिस का दावा है कि जो हथियार मिले हैं, वो डाकू गया बाबा और ददुआ के समय के हैं |  इधर सतना में  हरसेड़ गांव में किसान अवधेश द्विवेदी के अपहरण में डकैतों की मदद करने वाले लाली कोल की मां मुन्नी कोल ने बड़ा खुलासा किया है  |  मुन्नी कोल ने मीडिया के सामने दिए गए बयान में कहा है कि डकैत बबुली व लवलेश कोल को मरने वालों में लाली  भी शामिल था  |  मुन्नी बाई ने बताया कि दोनों डकैत लोगों को बहुत परेशान करते थे |   जिससे त्रस्त होकर  दोनों को मार दिया  |  इसके बाद उसने खुद पुलिस के सामने जाकर आत्मसमर्पण कर दिया |  डकैत बबुली के मौत पर रोज नए खुलासे हो रहे हैं |  इसके बाद मध्यप्रदेश पुलिस की जमकर किरकिरी हो रही है |  मध्यप्रदेश पुलिस के एनकाउंटर की कहानी में भी जमकर झोल झाल है | ऐसे में उत्तरप्रदेश पुलिस का कहना है कि डकैत बबुली की गैंग का सफाया  उसी के साथियों ने किया | डकैत सोहन और लाली कोल की कहानी लगभग एक जैसी है जो मध्यप्रदेश पुलिस को कटघरे में खड़ा कर रही है|   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 RAJNATH SINGH

तेजस में उड़ान भरने वाले पहले रक्षामंत्री  राजनाथ   रक्षामंत्री राजनाथ सिंह नेआज स्वदेशी हल्के लड़ाकू विमान तेजस में उड़ान भरी  |  बेंगलुरु के सेंटर से तेजस विमान में वे सवार हुए थे |  राजनाथ सिंह  देश के पहले रक्षा मंत्री भी बन गए हैं जिसने तेजस विमान में उड़ान भरी   तेजस विमान को एचएएल ने तैयार किया है।  तेजस के साथ उस समय इतिहास बन गया  | जब रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने इसने उड़ान भरी  | बेंगलुरु के सेंटर से तेजस विमान में वे सवार हुए थे  | राजनाथ सिंह  देश के पहले रक्षा मंत्री भी बन गए हैं जिसने तेजस विमान में उड़ान भरी  | लड़ाकू विमान के नौसेना संस्करण की सफल अरेस्ट लैंडिंग करवाई जा चुकी है   इसके साथ ही भारत उन चुनिंदा देशों के समूह में शामिल हो गया है जो विमानवाहक पोत पर उतरने में सक्षम जेट विमान का डिजाइन तैयार करने में सक्षम हैं  |  तेजस की स्पीड उस वक्त 244 किलोमीटर प्रति घंटा थी और सिर्फ दो सेकंड में उसे जीरो कर लैंड कराया गया  |   तेजस में रक्षा मंत्री की यह उड़ान उस वक्त  हुई  है जब HAL को देश में बनाए जाने वाले 83 एलसीए मार्क 1ए विमान के निर्माण के लिए 45 हजार करोड़ रुपये की परियोजना मिलने वाली है  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

AYODHYA

 मध्यस्थता की प्रक्रिया भी साथ-साथ चलेगी   अयोध्या राम जन्मभूमि केस में अहम सुनवाई कर रहे सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस ने इस मामले में सुनवाई पूरी होने को लेकर अहम बात कही है  |  चीफ जस्टिस ने कहा है कि मामले में 18 अक्टूबर तक सुनवाई पूरी करने की कोशिश है  | इस दौरान मध्यस्थता की प्रक्रिया भी साथ साथ चल सकेगी  |  चीफ जस्टिस ने बुधवार को कहा कि इस मामले में मध्यस्थता को लेकर भी पत्र मिला है और सुनवाई के साथ ही मध्यस्थता की कोशिश भी जारी रहेगी  मध्यस्थता की प्रक्रिया पूरी तरह गोपनीय रहेगी  | संभावित तारीख को देखते हुए हम यह कह सकते हैं कि सबमिशन की प्रक्रिया 18 अक्टूबर तक पूरी करने की साझा कोशिश करेंगे  | उन्होंने यह भी कहा कि इसके लिए जरूरत हुई तो शनिवार को भी सुनवाई करेंगे  | 18 अक्टूबर तक सुनवाई पूरी होने के बाद फैसला लिखने के लिए 4 हफ्ते का वक्त मिलेगा  | उन्होंने इस दौरान मध्यस्थता फिर शुरू करने की बात भी कहा और कहा कि सुनवाई के साथ ही मध्यस्थता की प्रक्रिया भी जारी रहेगी और इसमें कोई आपसी रजामंदी से हल निकलता है तो उसे कोर्ट में फाइल किया जा सकता है |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 KAMALNATH

सिरसा :अब कमलनाथ के दिन गिनती के हैं सिख विरोधी दंगे में कमलनाथ पर गिरेगी गाज   मुख्यमंत्री कमलनाथ जी आप संकट में हैं | 1984 के सिख विरोधी दंगों में आपके खिलाफ फ़ाइल खुल चुकी है और गवाह भी तैयार हैं  | गवाहों की मानें तो 1984 के रकाबगंज कत्लेआम में आपने लोगों को उकसाने का काम किया था  | इस मामले में न्याय के लिए लड़ रहे मनजिंदर सिंह सिरसा का कहना है कमलनाथ जी आपके पास मुख्यमंत्री के रूप में गिनती के दिन बचे हैं  | क्योंकि इस मामले में आप को जेल तक जाना पड़ सकता है  |  1994 में रकाबगंज के कत्लेआम में कमलनाथ की क्या भूमिका थी अब इसका खुलासा हो सकता है  |  मनजिंदर सिंह सिरसा ने कहा अब मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के गिनती के दिन बचे हैं  | सिख विरोधी दंगे के चश्मदीद संजय सूरी ने गवाही दी है कि उस दिन कमलनाथ ने लोगों को उकसाया था  सिरसा का कहना है इस मामले में कमलनाथ को जेल भी जाना पड़ सकता है  | लम्बे आरसे से 1984 के सिख विरोधी दंगों में न्याय के लिए लड़ रहे लोगों के साथ खड़े नेता मनजिंदर सिंह सिरसा की मानें तो दंगे के चश्मदीद संजय सूरी ने सारा सच नानावटी आयोग को बताया है   |  मनजिंदर सिंह सिरसा ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी को आगाह किया कि  1984 नरसंहार का सच सुनने के लिए  तैयार रहें  | सिरसा ने कहा कि कमलनाथ के लिए अब उल्टी गिनती शुरू हो गई है  | मनजिंदर सिंह सिरसा ने ट्वीट किया कि   न्याय में देरी हो सकती है, न्याय से बचा नहीं जा सकता  |  सिरसा ने  संजय सूरी के एफआईआर विटनेस के रूप में  पेश होने का स्वागत किया है  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

PAKISTAN

भारत ने दिया पकिस्तान को कड़ा जवाब   भारत द्वारा कश्मीर से अनुच्छेद 370 कमजोर करने से बौखलाया पाक लगातार सीमा पर सीजफायर उल्लंघन कर रहा है  | पाकिस्तान की ओर से बालाकोट के मेंढर सेक्टर में गोलाबारी की गई |  भारत की ओर से इसका कड़ा जवाब दिया गया  | कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा हटाए जाने के बाद से ही पाकिस्तान बौखलाया हुआ है  |  इस वजह से वह लगातार सीमा पार से गोलाबारी कर भारत को उकसाने की कोशिश कर रहा है |  पकिस्तान भारत को उकसाने के लिए लगातार सीज फायर का उलंघन कर रहा है  | 10-11 सितंबर की दरमियानी रात को भारतीय सेना की टुकड़ी ने पाकिस्तान के एक सैनिक गुलाम रसूल को पीओके के काजीपुर सेक्टर में मार गिराया था |  इससे बौखलाए पाकिस्तान ने काजीपुर सेक्टर में सीजफायर का उल्लंघन कर गोलीबारी करते हुए सैनिक का शव उठाने की कोशिश की थी, लेकिन भारत के कड़े जवाब की वजह से पाक नाकाम रहा था, इतना ही नहीं उनका एक और सैनिक और मारा गया था  | लगातार दो दिन तक दो सैनिकों के शव उठाने में नाकाम रहने के बाद पाकिस्तान को आखिरकार सफेद झंडा दिखाना पड़ा था जिसके बाद भारत ने अपनी ओर से गोलाबारी रोकी थी और पाक शव उठा सका था  |  इसके बाद से  पाकिस्तान की ओर से बालाकोट के मेंढर सेक्टर में कई बाए गोलाबारी की गई  |  भारत की ओर से इसका कड़ा जवाब दिया गया  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 PAKISTAN

जंग नहीं चाहता तो PoK भारत को सौंपें   कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद भारत ने साफ कर दिया है कि पूरा जम्मू कश्मीर भारत का है  |  इसमें पाकिस्तान द्वारा कब्जा किया गया हिस्सा भी शामिल है |  मोदी सरकार में मंत्री रामदास अठावले का एक बड़ा बयान सामने आया है जिसमें उन्होंने पाकिस्तान से PoK वापस लौटाने के लिए कहा है  |  चडीगढ़ में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान रामदास अठावले ने कहा कि 'पाकिस्तान अगर खुद के लिए अच्छा चाहता है तो उसे पाकिस्तान के कब्जे वाला कश्मीर  भारत को सौंप देना चाहिए |  अगर वे युद्ध नहीं चाहते और इमरान खान पाकिस्तान का भला सोचते हैं तो उन्हें PoK हमें सौंप देना चाहिेए  |  अठावले यहीं नहीं रुके उन्होंने साथ ही कहा कि 'ऐसी रिपोर्ट्स आ रही हैं कि PoK के लोग पााकिस्तान के साथ नहीं रहना चाहते हैं और वे भारत  में मिलना चाहते हैं |    पिछले 70 सालों से पाकिस्तान ने कश्मीर का एक तिहाई हिस्सा कब्जा कर रखा है  | यह एक गंभीर मसला है | कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से ही पाकिस्तान बौखलाया हुआ है |  पाक पीएम इमरान खान ने शुक्रवार को पीओके में रैली को संबोधित करते हुए भड़काऊ बयान भी दिया था  | इसके पूर्व पाकिस्तान भारत को परमाणु हमले की भी चेतावनी दे चुका है |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 AMIT SHAH

शाह ने की एम्स में सेवा लगाई झाड़ू की सफाई    PM मोदी का जन्मदिन पुरे सप्ताह   | सेवा सप्ताह के रूप में मनाया जायेगा जिसकी शुरुआत शाह ने AIIMS में 'सेवा' करके की   | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन के मौके पर भारतीय जनता पार्टी सेवा सप्ताह का आयोजन कर रही है....  बीजेपी अध्यक्ष और गृहमंत्री अमित शाह ने शनिवार को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान  पहुंचकर मरीजों से मुलाकात की और फल बांटे और परिसर में झाडू भी लगाई  | इस दौरान अमित शाह के साथ पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा भी मौजूद रहे |   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का 17 सितंबर को जन्मदिन है  | भारतीय जनता पार्टी पीएम मोदी का जन्मदिन 'सेवा सप्ताह' अभियान के जरिये मना रही है  |  इस अभियान की आज से शुरुआत हुई है  |   इस अभियान के दौरान पार्टी कार्यकर्ता और नेता सेवा कार्य करेंगे|   भाजपा अध्यक्ष व् गृह मंत्री अमित शाह और कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा दिल्ली के AIIMS अस्पताल में पहुंचे   | यहां उन्होंने बच्चों के वार्ड में जाक उनसे मुलाकात की और फल बांटे |  इसके बाद अमित शाह और जेपी नड्डा ने AIIMS में साफ़ सफाई की  इस दौरान भाजपा नेता विजय गोयल और विजेंद्र गुप्ता भी मौजूद थे |  अमित शाह ने कहा कि 'भाजपा कार्यकर्ता देशभर में आज से सेवा सप्ताह की शुरुआत करेंगे  |  हमारे प्रधानमंत्री ने अपना पूरा जीवन देश की सेवा में लगा दिया और गरीबों के लिए काम किया |  इसलिए यह ज्यादा सही रहेगा कि हम उनके जन्मदिन के सप्ताह को सेवा सप्ताह के तौर पर मनाएं।'  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 PRIYANKA GHANDHI

क्रिकेट के जरिये राजनैतिक प्रहार   प्रियंका गांधी ने सैयद मुश्ताक ट्रॉफी का एक वीडियो शेयर किया जिसमें एक शानदार कैच को लपकते हुए दिखाया गया है |   इसी वीडियो से  प्रियंका गांधी  ने मोदी सरकार पर निशाना  साधा और लिखा  | भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए जनहित में जारी |  कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने एक बार फिर अर्थव्यवस्था के मुद्दे पर मोदी सरकार पर निशाना साधा है |  प्रियंका गांधी ने  सैयद मुश्ताक ट्रॉफी का एक वीडियो शेयर किया  और लिखा  भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए जनहित में जारी |  प्रियंका ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘सही कैच पकड़ने के लिए अंत तक गेंद पर नजर और खेल की सच्ची भावना होनी जरूरी है |  वरना अपना सारा दोष ग्रेविटी, गणित, ओला-उबर और इधर-उधर की बातों पर मढ़ते हैं |  प्रियंका गांधी का ये तंज केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के द्वारा हाल ही में दिए गए बयानों को लेकर है.  |  पीयूष गोयल ने गुरुवार को एक बयान में कहा था कि अर्थव्यवस्था को संभालने के लिए किसी भी तरह के गणित या उससे जुड़े आंकड़ों को देखने की जरूरत नहीं है, अगर आइंस्टीन इस गणित में उलझ जाते तो वे कभी भी ग्रेविटी की खोज नहीं कर पाते |  वहीं प्रियंका ने निर्मला सीतारमण के उस बयान को भी निशाना बनाया है जिसमें निर्मला ने ऑटो सेक्टर में आई गिरावट के लिए ओला-उबर को जिम्मेदार बताया था |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 AATANKI AASIF

लश्कर का सबसे बड़ा आतंकी था आसिफ   जम्मू कश्मीर में सुरक्षा बलों को उस वक्त बड़ी सफलता मिली जब सुरक्षा बलों ने  सोपोर में आतंकवादियों से मुठभेड़ के दौरान लश्कर ए तैयबा के बड़े आतंकी आसिफ को मार गिराया |  आतंकी आसिफ घाटी में लश्कर ए तैयबा का संचालन करता था  | हाल ही में सोपोर में आतंकियों ने एक परिवार पर जानलेवा हमला किया था, आतंकियों ने परिवार के तीन सदस्यों को गोलियों से छलनी कर दिया था  | इसमें एक मासूम बच्ची आसमा जान भी शामिल थी  ... लश्कर ए तैयबा का आंतकी आसिफ घाटी में इस आतंकी संगठन का सबसे बड़ा कमांडर था |  जम्मू कश्मीर में लश्कर ए तैयबा की हर आतंकी गतिविधि इसी के निशाने पर होती थी  | ऐसे में आज सुरक्षा बलों ने इस आतंकी को मारकर बड़ी सफलता हासिल की है |  भारतीय सेना घाटी में आतंकियों के खात्मे के लिए विशेष अभियान चला रही है |   पुलवामा हमले के बाद इस अभियान में काफी तेजी आ गई है  | आतंकियों को होने वाली टेरर फंडिग पर भी नकेल कसी गई है  |   इससे आतंकी संगठन बौखला गए हैं और वे लगातार सेना पर हमला करने की ताक में रहते हैं  | यही वजह है कि आए दिन आतंकियों और सेना के बीच मुठभेड़ सामने आ रही हैं  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

jitendra singh

PoK को भारत में मिलाना सरकार का अगला एजेंडा' कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद मोदी सरकार के मंत्री जितेंद्र सिंह का  बड़ा बयान सामने आया | जितेंद्र सिंह ने कहा कि 'हमारा अगला एजेंडा पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर को भारत में मिलाना है | इस बयान के साथ ही मोदी सरकार के अगले कदम की तस्वीर भी बहुत हद तक साफ होती नजर आने लगी है  |केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा कि 'यह सिर्फ मेरा या मेरी पार्टी की ही प्रतिबद्धता नहीं है, बल्कि यह उस संकल्प का हिस्सा है जो साल 1994 में पी वी नरसिम्हा राव की सरकार के दौरान सर्वसम्मति से पास किया गया था  | जितेंद्र सिंह का बायान बहुत स्पष्ट और साफ़ है | सूत्रों की मानें तो प्रधानमंत्री मोदी इस मसले पर कई देशों के प्रमुखों से चर्चा कर साफ़ कह चुके हैं कि pok हमारा हिस्सा है और हम कभी भी उसे अपने कब्जे में ले सकते हैं | और यह सिर्फ दो देशों के बीच का मसला है  | मोदी सरकार कभी भी pok को लेकर एक्शन ले सकती हैं |एक तरफ जहां पाकिस्तान कश्मीर का राग अलापता रहा है वहीं दूसरी ओर मोदी सरकार के अगले एजेंड को जानकर अब उसकी बौखलाहट और बढ़ना लाजमी है | पीओके से चीन की आर्थिक जरुरते भी जुड़ी हुई हैं। ऐसे में मोदी सरकार के मंत्री के इस अगले एजेंडे से चीन को भी तकलीफ हो सकती है |

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 URMILA MATODKAR

कोंग्रस की गुटबाजी से परेशान हो गईं थीं उर्मिला   कांग्रेस में गुटबाजी का शिकार हुईं अभिनेत्री से पॉलटिशियन बनीं उर्मिला मातोंडकर ने कांग्रेस से इस्तीफ़ा दे दिया है|  उर्मिला मातोंडकर ने कहा कि मैं कुछ बड़ा करने के लिए राजनीति में आई थी लेकिन कांग्रेस की गुटबाजी के चलते ये संभव नहीं है |  अभिनेत्री उर्मिला मातोंडकर ने कांग्रेस से अचानक इस्तीफा दे दिया |  लोकसभा चुनाव से पहले कुछ बड़े सपने लेकर उर्मिला ने कांग्रेस ज्वाइन की थी  |  और वे एक्ट्रेस से पॉलीटिशयन बन गईं थी   | उर्मिला मातोंडकर ने मुंबई कांग्रेस की अंदरूनी गुटबाजी से नाराज होकर इस्तीफा दिया है  |  उन्होंने  कहा कि मेरी राजनीतिक और सामाजिक संवेदनाएं बड़े लक्ष्य को हासिल करने के लिए हैं, लेकिन मुंबई कांग्रेस की अंदरूनी राजनीति के कारण मैं ऐसा कर नहीं पा रही हूं  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 MAHILA RESQUE OPRESTION

अस्पताल पहुंचकर महिला ने दो बच्चों को दिया जन्म   एक गर्भवती महिला जब बढ़ में फंस गई तो उस वक्त  |  बचाव दाल के होमगार्ड और डॉक्टर उसके लिए भगवान् बनकर आये  |  बचाव दाल के होमगार्ड और डॉक्टर ने बाढ़ में घिरे गांव से गर्भवती महिला को रेस्क्यू ऑपरेशन कर सुरक्षित बहार निकालकर अस्पताल पहुंचाया   | जहाँ  महिला ने दो जुड़वाँ बच्चों को जन्म  दिया | बच्चे व महिला दोनों सुरक्षित हैं  |  आपने डॉक्टर को भगवान का दूसरा रूप कहते सुना होगा  | लेकिन आज देखने को भी मिला  | बारना डेम के गेट खोलने और अधिक बारिश होने के कारण बरेली नगर की निचली बस्तियों में पानी भर गया  | बरेली तहसील से 3 किलोमीटर दूरी पर ही स्थित ग्राम मेहरागावं सहित कई ग्रामों का बरेली तहसील से पूरी तरह संपर्क टूट गया है   | जिससे गावं वालों का जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया हैं   |  गावं वालों की मदद के लिए प्रशासन पूरी तरह अलर्ट हैं  | जब एक ग्रामीण गर्भवती महिला बाढ़ में फंस गई और उसकी डिलीवरी का समय हो गया था  | तब   | आशा कार्यकर्ता की सूचना पर मुख्य खंड चिकित्सा अधिकारी बरेली गिरीश वर्मा ने सराहनीय कार्य किया है  |  जिसकी नगर में भरपूर प्रशंसा की जा रही है  |  डॉक्टर ने एक मां और जुड़वाँ  बच्चों  की जान बचाई  |  डॉं गिरीश वर्मा ने बताया कि  दोपहर 3 बजे टीएनएम सीमा पांडे द्वारा मुझे सूचना दी गई कि ग्राम मेहरा गांव खुर्द में एक गर्भवती परेशानी से जूझ रही है  |  जिसकी सोनोग्राफी में जुड़वा बच्चे होना बताया गया है  | और उसे दर्द आ रहे हैं मेने उसी स्थिति में गम्भीरता को देखते हुए तुरन्त तहसीलदार निकिता तिवारी से बात की ,  कलेक्टर उमाशंकर भार्गव और एसपी मोनिका शुक्ला, एसडीओपी एससी बोहित, थाना प्रभारी कुंवर सिंह मुकाती को इस बात से अवगत कराया  तो उन्होंने प्रशासन द्वारा तुरन्त मोटर बोट की व्यवस्था की  |  दो बोट चालक तथा 2 सुरक्षा कर्मी एवं भूपेन्द्र राजपूत के साथ मै स्वयं उस बोट में जाकर उस गर्भवती महिला को सुरक्षित बरेली लेकर आया  | और सिविल अस्पताल बरेली में भर्ती कर उपचार शुरू हुआ  | गर्भवती महिला ज्योति सिलावट ने रात 10 बजकर 16 मिनट पर  लड़का को जन्म दिया और रात 11 बजकर 34 मिनट पर लड़की को जन्म दिया  |  जच्चा बच्चा पूर्ण रूप से स्वस्थ हैं डॉक्टर अंबेडकर भवन और पुरानी कन्या शाला में बाढ़ पीड़ित 150 लोगों को ठहराया गया है जिनका लगातार स्वास्थ्य प्रशिक्षण गिरीश वर्मा द्वारा किया जा रहा है  ....          

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 MLA BALDEV

पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों असुरक्षित   पाकिस्तान में जनता कितनी असुरक्षित है इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि पाक पीएम इमरान खान की पार्टी के एक पूर्व अल्पसंख्यक विधायक ने भारत में रहने की अनुमति चाही है  | पाकिस्तान तहरीक ए इंसाफ पार्टी के पूर्व विधायक रहे बलदेव कुमार फिलहाल भारत में हैं उन्होंने पाकिस्तान की बेहद खतरनाक स्थिति का जिक्र किया है |  एक समय इमरान खान के करीबी रहे इनकी पार्टी तहरीक ए इन्साफ पार्टी के पूर्व विधायक बलदेव कुमार ने कहा कि  पकिस्तान में  सिर्फ अल्पसंख्यक ही नहीं बल्कि मुस्लिम भी असुरक्षित हैं  | हम वहां बड़ी मुश्किलों से जिंदगी गुजर बसर कर रहे हैं  |  मैं भारत सरकार से निवेदन करता हूं कि मुझे शरण दी जाए  | मैं वापस नहीं जाऊंगा  | उन्होंने  कहा कि 'पाकिस्तान में रहने वाले सिख और हिंदू परिवारों के लिए भारत सरकार को पैकेज की घोषणा करना चाहिए जिससे वे भारत आकर बस सकें  |  मैं चाहता हूं कि मोदी साहब उनके लिए कुछ करें  |  वे वहां प्रताड़ित हो रहे हैं |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

single use plastic

दुनिया गंभीर जल संकट के दौर से गुजर रही है   ग्रेटर नोएडा में हो रहे कॉप-14 में हिस्सा लेने पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी सरकार द्वारा पर्यावरण और धरती को बचाने के लिए उठाए जा रहे कदमों का जिक्र करने के साथ ही सिंगल यूज प्लास्टिक का उपयोग बंद करने की अपील दुनिया भर के लोगों से  की |  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि मेरी सरकार ने घोषणा की है कि भारत आने वाले सालों में सिंगल यूज प्लास्टिक के उपोयग पर प्रतिबंध लगाएंगे | मेरा मानना है कि वक्त आ गया है जब दुनिया के सभी देश इस सिंगल यूज प्लास्टिक को अलविदा कह दें  | प्रधानमंत्री ने कहा कि पानी का प्रबंधन भी एक अहम मुद्दा है और इसे ध्यान में रखते हुए मेरी सरकार ने जल शक्ति मंत्रालय बनाया है जो पानी से जुड़े हर महत्वपूर्ण मुद्दे को देखेगा | प्रधानमंत्री ने कहा कि आज दुनिया गंभीर जल संकट के दौर से गुजर रही है  | जब हम मरुस्थलीकरण पर बात करते हैं तो जल संकट जैसी समस्या पर भी विचार करना पड़ता है |  हमें जमीन को मरुस्थलीकरण से बचाने के लिए जल संरक्षण पर भी ध्यान देना होगा  |  मोदी ने कहा भारत की संस्कृति में धरती, जल, वायु और पर्यावरण के संरक्षण की संकल्पना मौजूद है | हमें यह बताते हुए खुशी हो रही है कि भारत में साल 2015 से साल 2017 के बीच वनीकरण में 0.8 मिलियन हेक्टेयर का इजाफा हुआ है | प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत में सदा से धरती को पवित्र स्थान दिया गया है  | भारतीय संस्कृति में भूमि को माता माना गया है  | भारत के लोग सुबह सोकर उठने के बाद धरती को नमन करके दिन की शुरुआत करते हैं   |  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 NARENDRA MODI

देश में संकल्पों के साथ जीने की ताकत   पीएम मोदी ने अपनी रोहतक रैली में कहा कि वह रोहतक में ऐसे वक्त आए हैं जब उनकी सरकार के सौ दिन पूरे हो रहे हैं  |  जनता से मिले समर्थन से ही सरकार बड़े फैसले ले पाई है  | बैंकिंग व्यवस्था को मजबूत करने के लिए अहम फैसले लिए गए हैं  | सौ दिनों में संसद सत्र में जितने बिल पास हुए उतना आज तक पिछले साठ साल में नहीं हुए थे  |  बीते सौ दिन में देश और दुनिया ने देखा है कि भारत अब हर चुनौती को चुनौती देता है  |  फिर चाहे जम्मू-कश्मीर व लद्दाख का मामला हो या गहराता जल संकट |  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  ने कहा कि सात सितंबर को रात एक बजकर 50 मिनट पर पूरा देश टीवी पर नजरें गाड़कर बैठा था  |  चंद्रयान-दो की खुशखबरी के लिए देश-दुनिया देख रही थी  | बाद के सौ सेकेंड में मैंने एक और साक्षात्कार किया  | एक घटना ने पूरे देश को सौ सेकेंड में जगा दिया  |   पूरे हिंदुस्तान को जोड़ दिया  | अब हिंदुस्तान में इसरो स्पिरिट है  |  देश नकारात्मकता को स्वीकार करने को तैयार नहीं है  | देश पुरुषार्थ की पूजा करता है  देशवासियों का बदला मिजाज बहुत बड़ी पूंजी है |  100 सेकेंड में हिंदुस्तान ने दिखा दिया कि जिस देश में संकल्पों के साथ जीने की ताकत होती है, वह इसरो स्प्रिट होता है  |  हम भाग्यवान हैं कि देश में ऐसी ऊर्जा है |  पीएम मोदी ने लोकसभा चुनाव में भाजपा को सभी दस सीटें जिताने के लिए हरियाणा के लोगों का आभार जताया  |  कहा कि राजनीति के आज के युग में 55-60 प्रतिशत वोट पाना अपने आप में जनविश्वास व जन जाग्रति का दुर्लभ उदाहरण है |   इसके लिए वह हरियाणा के लोगों का आभार व्यक्त करते हैं  | पीएम ने कहा कि उन्हें तीसरी बार रोहतक में आने का मौका मिला है  | कहा कि वह एक बार फिर समर्थन मांगने के लिए आए हैं  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 NARENDRA MODI

मोदी से मिलकर भावुक हुए ISRO चीफ  सिवन   चांद से महज दो कदम दूर रहे गए भारत के महात्वाकांक्षी मिशन के विक्रम लैंडर से संपर्क टूटने के बावजूद देश भर में जहां इसरो के वैज्ञानिकों की तारीफ  हो रही है वहीं प्रधानमंत्री मोदी सुबह फिर से इसरे वैज्ञानिकों से मिलने और उनका हौसला बढ़ाने पहुंचे | जहाँ प्रधानमंत्री मोदी से मिलकर इसरो चीफ के सिवन भावुक हो गए  |  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर सबका दिल जीत लिया  | सभी वैज्ञानिकों से मुलाकात के बाद जब प्रधानमंत्री मोदी  लौट रहे थे तब एक ऐसा भावुक पल भी आया जब इसरो चीफ के सिवान प्रधानमंत्री से मिलकर अपनी  भावनाओं पर काबू नहीं रख सके |   जब मोदी वैज्ञानिकों से मिलकर अपनी कार की तरफ बढ़ रहे थे तभी इसरो चीफ प्रधानमंत्री से मिलते ही भावुक हो गए और उन्हें इस तरह भावुक देख प्रधानमंत्री मोदी ने उन्हें गले लगा लिया  और उन्हें जादू की झप्पी दी |  पीएम मोदी ने के सिवान को काफी देर तक गले लगाए रखा और ढांढस बंधाते रहे |  आखिरकर, इसरो चीफ ने खुद को संभाला और इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी ने फिर से उनका हौंसला बढ़ाते हुए वहां से रवाना हुए  | यह एक ऐसा पल था जब यूं लग रहा था मानों प्रधानमंत्री एक बड़े भाई की तरह के सिवान को गले लगाकर यह कह रहे हों कि सब ठीक हो जाएगा |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 NARENDRA MODI

स्वच्छ भारत के लिए अमेरिका में होंगे सम्मानित   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अनतर्राष्ट्रीय स्तर पर दबदबा बढ़ता जा रहा है  |  मोदी को अमेरिका में बिल मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन की तरफ से स्वच्छ भारत अभियान की शुरुआत करने के लिए  पुरस्कार से नवाजा जाएगा |   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक और पुरस्कार मिला है M|  बिल मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन की तरफ से स्वच्छ भारत अभियान की शुरुआत करने के लिए पीएम मोदी को अमेरिका  में  पुरुस्कृत किया जाएगा   | केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने सोमवार को ट्वीट कर इसकी जानकारी दी  |  जितेंद्र सिंह ने लिखा कि एक और पुरस्कार  | हर भारतीय के लिए गर्व का एक और क्षण  | क्योंकि पीएम मोदी की मेहनती और अभिनव पहल की वजह से दुनिया भर से तारीफ मिलती है | मोदी के स्वच्छ भारत अभियान की पूरी दुनिया में जमकर तारीफ़ हुई है |  जिस तरह मोदी ने आम जान मानस को स्वच्छता के लिए प्रेरित किया उससे पूरी दुनिया उनकी मुरीद हुई है |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 ABHINANDAN DHANOA

एयरफोर्स चीफ के साथ उड़ाया मिग-21   एयरफोर्स के एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ और विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान ने आज पठानकोट एयरबेस से मिग -21 लड़ाकू विमान उड़ाया |  इस दौरान अभिनंदन नए लुक और नए जोश में दिखाई दिए |  खबर है कि जल्द बॉलीवुड एक्टर विवेक ओबेरॉय अभिनंदन पर फिल्म बनाएंगे  |  वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ ने विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान के साथ आज मिग-21 में उड़ान भरी  |   बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान फाइटर जेट्स द्वारा भारत की सीमा में घुसने की कोशिश के बाद   मिग-21 की मदद से अभिनंदन ने पाकिस्तान के एफ-16 लड़ाकू विमान को मार गिराया था  |  हालांकि, इस दौरान उनका विमान भी दुर्घटना का शिकार हो गया था और वह इजेक्ट करने के बाद पीओके में लैंड हुए थे |  पाकिस्तानी सेना ने अभिनंदन को हिरासत में ले लिया था |  अभिनंदन की रिहाई के बाद कई मेडिकल टेस्ट हुए. हाल में ही उन्हें फिर से लड़ाकू विमान उड़ाने की परमिशन मिली | पाकिस्तान की चंगुल से निकलने और बहादुरी की मिशाल पेश करने वाले अभिनंदन को सरकार से वीर चक्र मिला है |  अब बॉलीवुड ने भारतीय जवानों को ट्रिब्यूट देने के लिए एक फिल्म बनाने का फैसला किया है |  बॉलीवुड एक्टर विवेक ओबेरॉय को फिल्म बनाने की अनुमति मिली है |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 YEAR INDIA

और प्रसिद्ध होगा ग्वालियर का मानसिंह महल    ग्वालियर का ऐतिहासिक दुर्ग अब एयर इंडिया की फ्लाइट का हिस्सा बन गया है |   जहाज के टेल पोर्शन में ग्वालियर किले  के मानसिंह पैलेस को जगह दी गई है |  अब यह दुर्ग विश्व की हर उस जगह जाएगा, जहां एयर इंडिया की फ्लाइट जाती है  |   ग्वालियर का किला और उसकी पहचान राजा मानसिंह का महल मान मंदिर अब हवा में उड़ता नजर आएगा  |  एयर इण्डिया ने इसे अपने टेल पोर्शन पर जगह दी है  |  टूरिज्म कंपनी के मैनेजर पुनीत द्विवेदी ने बताया कि एयर इंडिया ने दिल्ली का लाल किला और ग्वालियर दुर्ग के मान सिंह पैलेस को चुना है  |  एयर इंडिया की फ्लाइट की टेल पोर्शन पर टूरिज्म को प्रमोट करने के लिए कई ऐतिहासिक स्थल लिए हैं, लेकिन किले केवल दो ही हैं | ग्वालियर किला हमेशा से देशी विदेशी पर्यटकों में आकर्षण का केंद्र रहा है |  किले का मुख्य आकर्षण महाराजा मानसिंह महल को देखने के लिए हर वर्ष  लाखों देसी विदेशी  पर्यटक यहां आते हैं।  ग्वालियर दुर्ग का मानसिंह महल पूरी दुनिया में अपनी दुर्लभ बनावट के लिए  प्रसिद्ध है, एयर इंडिया के इस टेल डिजाइन में आने के बाद कई देश मानसिंह महल के बारे में ज्यादा जानना चाहते हैं  | राजा मानसिंह तोमर ने 1486  से 1516 के बीच महल का निर्माण करवाया था |  इसकी बाहरी दीवारों पर पीले बतख, नीले, पीले और हरे रंग के हाथी, बाघ और मगरमच्छ और बेजोड़ पच्चीकारी की गई है  | एयर इंडिया ने अपने अपने एयरक्राफ्ट पर ग्वालियर के दुर्ग सहित देश की ऐतिहासिक धरोहरों को स्थान देकर इन्हें दुनियाभर में प्रचारित करने का अनोखा प्रयोग किया है  |  इससे ग्वालियर सहित देश का गौरव दुनियाभर में बढ़ेगा | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 PNB, OBC UNAITED BANK

PNB  OBC और यूनाइटेड बैंक के विलय की घोषणा    देश में मंदी की खबरों के बीच उद्योग जगत को मजबूती देने के लिए की गई घोषणाओं के बाद वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने  पंजाब नेशनल बैंक, यूनाइटेड बैंक और ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स के विलय की घोषणा की  |  वित्त मंत्री ने कहा कि इस विलय के बाद यह देश का दूसरा सबसे बड़ा बैंक होगा  ...  वहीं कैनरा बैंक का सिंडिकेट बैंक में विलय होगा और यह देश का चौथा बड़ा बैंक बन जाएगा  |  वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि  इसके अलावा यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में आंध्रा बैंक और कॉर्पोर्शन बैंक का विलय होगा और यह देश का पाचवां बड़ा बैंक बनेगा  | वहीं इंडियन बैंक का इलाहाबाद बैंक में विलय होगा और यह देश का  छठवां सबसे बड़ा पब्लिक सेक्टर बैंक होगा  |उन्होंने इस दौरान सरकार के उठाए कदमों से बैंकों को हुए फायदे की जानकारी दी  |  वित्त मंत्री ने अपने प्रजेंटेशन में कहा कि पिछले हफ्ते लिए गए फैसलों का  असर दिखने लगा है और तीन बैंक हैं जिन्होंने अपने एनबीएफसी का समाधान निकला है   |   वित्तमंत्री ने कहा  इससे जीडीपी को आगे बढ़ने में मदद मिलेगी  |  हमने बैंकों और बैंकिंग सेक्टर में सुधार किया है  |  बैंकों को सिर्फ लिक्विडिटी नहीं देनी है बल्कि उनमें और सुधार भी करने हैं  | उन्होंने यह भी कहा कि फर्जी कंपनियों को बंद किया गया है जिनकी संख्या 3 लाख है  |  हम 5 ट्रिलियन इकोनॉमी की तरफ बढ़ रहे हैं  | भगोड़ों और उनकी संपत्तियों के खिलाफ काम जारी रहेगा  |  सरकार ने कम वक्त में ज्यादा लोन की स्कीम प्रस्तुत की थी |  सरकार द्वारा अब तक उठाए गए कदमों का असर है कि बैंक एनपीए में कमी आई है  |     

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 NARENDRA MODI

न्यू इंडिया में सरनेम नहीं योग्यता के मायने    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा  न्यू इंडिया  हर भारतीय की आवाज है  |  यह वह भारत है जहां भ्रष्टाचार की कोई जगह नहीं है  | कोई कितना भी बड़ा  व्यक्ति क्यों ना हो सिर्फ उसकी क्षमता ही मायने रखती है  | न्यू इण्डिया में सरनेम नहीं योग्यता के मायने हैं  |  प्रधानमंत्री नरेंद्र  मोदी ने कहा कि न्यू इंडिया में सरनेम मायने नहीं रखता है  | बल्कि अपना नाम बनाने की काबिलियत मायने रखती है  |  न्यू इंडिया चुनिंदा लोगों की आवाज नहीं है, बल्कि हर भारतीय की आवाज है  | यह वह भारत है जहां भ्रष्टाचार की कोई जगह नहीं है |  कोई भी व्यक्ति क्यों ना हो सिर्फ उसकी क्षमता ही मायने रखती है  |  पीएम मोदी ने कहा कि अब लोग बोल रहे हैं कि हम स्वच्छ भारत बनाकर रहेंगे  |  हम भ्रष्टाचार मुक्त भारत बनाकर रहेंगे  |  यह सब सिर्फ दृढ इच्छा शक्ति की वजह से ही संभव हो सका है  | मोदी ने कहा देश में आबादी के मुकाबले जरुरी चिकित्सा सुविधाओं का अभाव बना हुआ है  |   इसी के चलते सरकार ने देशभर में  साढ़े बारह हजार  आयुष केंद्र शुरू करने का लक्ष्य बनाया है  | आयुष मंत्रालय के एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने इसकी जानकारी देते हुए कहा कि इस साल देश में 4 हजार आयुष केंद्रों को खोले जाने का लक्ष्य है  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 MARY KOM

सोन हुएंग-मिन सर्वश्रेष्ठ पुरुष खिलाड़ी    भारतीय मुक्केबाज एमसी मैरीकॉम को एशिया की सर्वश्रेष्ठ महिला खिलाड़ी चुना गया  | दक्षिण कोरिया के फुटबॉल स्टार सोन हुएंग-मिन को सर्वश्रेष्ठ पुरुष खिलाड़ी चुना गया  |  एशियन स्पोर्ट्सराइटर्स यूनियन द्वारा आयोजित पहले 'अवार्ड्स फॉर एशिया' में इन खिलाड़ियों को सम्मानित किया गया  | सेलेंगोर के मुख्यमंत्री वायएबी तुआन हाजी अमीरुद्दीन शारी ने पुरस्कार वितरित किए  |  छह बार की वर्ल्ड मुक्केबाजी चैंपियन मैरीकॉम को एशियाई मुक्केबाजी के क्षेत्र में धमाकेदार प्रदर्शन के लिए सर्वश्रेष्ठ  महिला खिलाड़ी  चुना गया  |  वे सात वर्ल्ड चैंपियनशिप में पदक जीतने वाली एकमात्र महिला मुक्केबाज हैं  | मैरीकॉम की निगाहें 7 सितंबर से होने वाली वर्ल्ड मुक्केबाजी चैंपियनशिप में अपने सातवें स्वर्ण पदक पर टिकी रहेंगी  |  वे यदि इसमें सफल हुई तो क्यूबा के महान मुक्केबाज फेलिक्स सेवोन को पीछे छोड़ देंगी  | 26 वर्षीया सोन ह्युगं-मीन वर्तमान में टॉटनहैम हॉटस्पर का प्रतिनिधित्व करते हैं  |   इस खिलाड़ी ने पिछले साल दक्षिण कोरिया को एशियन गेम्स गोल्ड मेडल दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी  | कतर पुरुष फुटबॉल टीम और जापान महिला फुटबॉल टीम को एशिया की सर्वश्रेष्ठ टीमों का पुरस्कार प्रदान किया गया  |  कतर की टीम ने 10 बार एशियन कप में हिस्सा लिया और पिछले सत्र में खिताब जीतने में सफल रही थी। मैरीकॉम को पद्म भूषण, अर्जुन अवार्ड और पद्मश्री अवार्ड से भी सम्मानित किया जा चुका है। जापान की टीम ने 2011 में महिला वर्ल्ड कप जीता था जबकि 2015 में उपविजेता बनी थी।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 CONGRESS

देश फाइनेंशियल इमरजेंसी की ओर    कांग्रेस ने  मोदी सरकार पर निशाना साधा और कहा गवर्नमेंट ने देश को 'फाइनेंशियल इमरजेंसी' की ओर धकेल दिया है  |  रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने सोमवार को सरकार को 1.76 लाख करोड़ रुपए दिए थे  |  देश में मंदी जैसे हालातों के बीच कांग्रेस मोदी सरकार पर हमलावर होने लगी है  |  केंद्र सरकार द्वारा RBI से 1.76 लाख करोड़ लेने पर कांग्रेस ने सरकार पर जमकर निशाना साधा है | काग्रेंस ने इसे आर्थिक मंदी को छुपाने के लिए सरकार की कोशिश बताने के साथ ही इस पूरी कवायद को 'फाइनेंशियल इमरजेंसी' करार दिया है |  कांग्रेस से मुख्य राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि 'RBI का इमरजेंसी फंड 6 साल के सबसे निचले स्तर पर आ गया है क्योंकि भाजपा सरकार ने खस्ताहाल अर्थव्यवस्था को छुपाने के लिए जबरन 1.76 लाख करोड़ की राशि ली है  | ट्वीट के जरिये सुरजेवाला ने पिछले कुछ वक्त में बढ़े बैंकिंग फ्रॉड की ओर भी इशारा किया  | उन्होंने लिखा ' न्यू इंडिया में लूटो और भागो चल रहा है |  RBI की सालाना रिपोर्ट के अनुसार, साल 2018-19 में बैंक फ्रॉड के मामलों में 15 फीसदी का इजाफा हुआ है |    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 RAJNATH SINGH

कश्मीर कब पाक का था कि उसे लेकर रोते रहते हो गिलगित-बालतिस्तान पर भी पाक का  अवैध कब्जा    रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पकिस्तान को करारा जवाब दिया है  |  राजनाथ सिंह ने कहा कि कश्मीर कब पकिस्तान का था जो उसे लेकर रोते रहते हो   ... उन्होंने कहा पीओके और गिलगित-बालतिस्तान पर पकिस्तान ने अवैध कब्ज़ा कर रखा है  |  आतंकवाद का मददगार पाकिस्तान भारत को लेकर आये दिन विवादित बयान दे रहा है  | पाकिस्तान ने भारत को परमाणु हमला करने तक की धमकी दी है |   ऐसे में  रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान को  कहा कि PoK भी भारत का ही है, जिस पर पाकिस्तान ने अवैध कब्जा किया हुआ है  |  राजनाथ सिंह ने कहा 'मैं पाकिस्तान से पूछना चाहता हूं, कश्मीर कब पाकिस्तान का था कि उसको लेकर रोते रहते हो? पाकिस्तान बन गया तो हम आपके वजूद का सम्मान करते हैं  | पाकिस्तान हेज नो लोकस स्टडी ऑन दिस मैटर' |  इतना ही नहीं राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान को नसीहत देते हुए कहा कि सच्चाई यह है कि POK और गिलगित-बालतिस्तान पर भी पाकिस्तान ने अवैध कब्जा किया हुआ है  |  रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह लद्दाख के लेह में आयोजित 26वें किसान-जवान विज्ञान मेले में शामिल होने पहुंचे थे  |  इसके पूर्व पाकिस्तान के रेलवे मंत्री ने बुधवार को भारत और पाकिस्तान के बीच निर्णायक युद्ध होने की चेतावनी दी थी  |  वहीं पाकिस्तान ने शनिवार तक के लिए कराची एयरपोर्ट को बंद कर  गजनबी मिसाइल का परीक्षण  किया गया  | इसे पाकिस्तान द्वारा भारत पर दबाव बनाने की कोशिशों के तौर पर देखा जा रहा है |                     

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 VENKAIAH NAIDU

पाकिस्तान से अब सिर्फ पीओके पर ही बात होगी   भारत ने कश्मीर को लेकर अपना रुख साफ़ कर दिया है  |  उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू  ने कहा कि अगर पाकिस्तान से कोई बात होगी तो वह सिर्फ पाकिस्तान ऑक्यूपाइड कश्मीर पर ही होगी |   उन्होंने कश्मीर को भारत का अभिन्न हिस्सा बताया  |  कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद भारत और पाकिस्तान के रिश्तों में तल्खी बढ़ गई है |    पाकिस्तान की ओर से जहां लगातार भारत को उकसाने की कोशिश की जा रही है |  पाकिस्तान इस मसले को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर उठाने की कई बार कोशिश कर चुका है  |  इस बीच देश के उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू का बड़ा बयान सामने आया   |  उप राष्ट्रपति नायडू ने भारत का पक्ष रखते हुए कहा है कि भारत की अगर पाकिस्तान से कोई बात होगी तो वह सिर्फ पाकिस्तान ऑक्यूपाइड कश्मीर पर ही होगी  "|  उन्होंने कश्मीर को भारत का अभिन्न हिस्सा बताया है  |  उप राष्ट्रपति नायडू आंध्रप्रदेश के विशाखापट्टनम में नेवेल साइंट एंड टेक्नालॉजी लेबोरेटरी की गोल्डन जुबली के मौके पर बोल रहे थे  |  उन्होंने कहा कि हम युद्ध करने वालों में से नहीं हैं, हम शांतिप्रिय नागरिक हैं  |  देश के रक्षामंत्री राजनाथ सिंह के एक हफ्ते पहले दिए गए बयान के बाद उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू का यह बयान सामने आया है  |  जिसमें राजनाथ सिंह ने कहा था कि पाकिस्तान से तब तक कोई बात नहीं होगी जब तक वह आतंकवादियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करता है और आतंकवादी गतिविधियों को मदद देना बंद नहीं करता है |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 RAHUL GHANDHI

अपने ट्वीट से हंसी का पात्र बने राहुल का यूटर्न  पाक मंत्री ने ट्वीट कर बताया राहुल को बताया कन्फ्यूज्ड    अपने बयान से कश्मीर के मामले में पाकिस्तान को बोलने का मौका देने के बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने अब कश्मीर में हिंसा के लिए पाक को जिम्मेदार ठहरा दिया है  |  हालांकि, राहुल के इस बयान को अब भाजपा डैमेज कंट्रोल करार दे रही है  |  वहीं दूसरी तरफ पाकिस्तानी मंत्री ने राहुल के ताजा बयान को लेकर उन्हें कन्फ्यूज्ड करार दे दिया है  | राहुल गाँधी के कश्मीर पर आये पुराने ट्वीट की हर किसी ने आलोचना की थी  |  राहुल गांधी ने बुधवार को ट्वीट कर लिखा है कि, 'सरकार के साथ कईं मुद्दों पर असहमत हूं लेकिन यह साफ कर दूं कि कश्मीर भारत का आंतरिक मामला है और पाकिस्तान के अलावा दुनिया के किसी देश को इसमें हस्तक्षेप करने का हक नहीं |  उन्होंने अगले ट्वीट में लिखा है कि, 'कश्मीर में हिंसा है और इसको बढ़ावा और समर्थन पाकिस्तान द्वारा दिया जा रहा है |   वही देश जो आतंकवाद को बढ़ाने के लिए दुनिया में जाना जाता है |  राहुल के इस बयान पर पाकिस्तानी मंत्री फवाद चौधरी ने ट्वीट कर रिप्लाय दिया है और राहुल का कन्फ्यूज्ड करार दिया है  | साथ ही उन्होंने फैज अहमद फैज की सुबह-ए-आजादी गजल की लाइनें भी शेयर की हैं  | फवाद चौधरी ने लिखा है, 'आपकी समस्या आपकी कन्फ्यूज्ड राजनीति है  | असलीयत के करीब कोईं उदाहरण लें, अपने ग्रेट ग्रैंडफादर की तरह ऊंच स्टैंड लें जो भारतीय सेक्युलरिज्म की पहचान और उदार सोच के लिए पहचाने जाते हैं  |  दरअसल, राहुल गांधी ने 24 अगस्त को श्रीनगर एयरपोर्ट पर रोके जाने के बाद अपना वीडियो ट्वीट करते हुए सरकार पर हमला बोला था |   राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में लिखा था, 'कश्मीर के लोगों की आजादी और उनकी नागरिक स्वतंत्रता पर अंकुश के 20 दिन हो चुके हैं  | विपक्षी नेताओं और मीडिया को ड्रैकोनियन प्रशासन का सामना करना पड़ रहा है  |  साथ ही क्रूर ताकतें लोगों पर हमले कर रही है  |  राहुल गांधी के इस बयान को पाकिस्तानी सरकार और मीडिया ने हाथों हाथ लिया था  | लेकिन भारत में राहुल की इस बायान के लिए आलोचना हुई  |   खबर यह भी आई कि पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र में की अपनी शिकायत में राहुल गांधी के इस बयान का भी जिक्र किया है  |  इसके बाद कांग्रेस इस पूरे मामले में बैकफुट पर है  |  कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने बयान जारी कर राहुल गांधी का बचाव किया है  | कांग्रेस के बयान में कहा गया है कि हमने ऐसी खबरें देखी हैं, जिनमें पाकिस्तानी सरकार द्वारा जम्मू एवं कश्मीर के मुद्दे पर संयुक्त राष्ट्र में दी गई कथित याचिका के हवाले से राहुल गांधी का नाम शरारतपूर्ण तरीके से घसीटा गया है |    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

CONGREES RBI

देश को इकोनॉमिक इमरजेंसी में धकेला   रिजर्व बैंक द्वारा सरकार को भारी सरप्लस राशि देने के निर्णय की तीखी आलोचना करते हुए कांग्रेस ने कहा कि मोदी सरकार ने देश को आर्थिक आपातकाल में धकेल दिया है |  कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने कहा कि सरकार के दबाव में रिजर्व बैंक ने अपनी सीमा क्रॉस की है और इसका परिणाम भयावह हो सकता है. |  कांग्रेस ने अर्थव्यवस्था के हालात पर एक हफ्ते के भीतर श्वेतपत्र लाने की मांग की है |   आर्थिक मोर्चे पर मोदी सरकार को घेरने के लिए कांग्रेस ने तैयारी शुरू कर दी है | आनंद शर्मा ने कहा, 'रिजर्व बैंक के समूचे सरप्लस को एक बार में ही सरकार को देने का निर्णय लिया गया है |   इसमें पिछले एक साल की रिजर्व बैंक की आय भी शामिल है |   बेरोजगारी चरम पर है |   देश का निर्यात पांच साल पहले के स्तर पर है, सरकार के पास निवेश करने को पैसा नहीं, बैंकों के पास कर्ज देने को रकम नहीं |   ऐसे में रिजर्व बैंक ने ऐसा निर्णय लिया जो खतरे की घंटी है |  रिजर्व बैंक के बोर्ड ने सरकार के दबाव में यह निर्णय लिया है | कांग्रेस ने आर्थिक हालातों पर श्वेतपत्र लाने की मांग की है  |  आनंद शर्मा ने कहा कि रिजर्व बैंक ने कॉन्टिजेंसी फंड की सीमा में बदलाव करने का निर्णय लिया है |  ये आपातकाल के लिए था, जब 2008 में मंदी आई थी तो हमारे पास इस तरह का पर्याप्त फंड होने से देश को संभाला जा सका था |   उन्होंने कहा, 'तमाम कमेटियों ने पहले कॉन्टिजेंसी फंड 8 से 12 फीसदी रखने को कहा था, लेकिन रिजर्व बैंक ने इसे घटाकर 6.4 फीसदी तक कर दिया था. अब इसे घटाकर 5.5 फीसदी कर दिया गया है|   इसे डेंजर मार्क से नीचे लाया गया है | उन्होंने कहा, 'रघुराम राजन सहित सहित सभी पूर्व गवर्नर ने इसका विरोध किया था |   डॉ. सुब्बाराव, डॉ. रेड्डी, डिप्टी गवर्नर विरल आचार्य ने इसको विनाशकारी बताया था |   दुनिया में जब कोई बहुत बड़ा संकट आता है, तब ऐसा किया जाता है, अर्जेंटीना ने हाल में ऐसा किया था तो वहां की अर्थव्यवस्था तबाह हो गई |  इस निर्णय के विनाशकारी प्रभाव होंगे  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 ARUN JAITLEY

अरुण जेटली पंचतत्व में विलीन राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार   पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली पंचतत्व में विलीन हो गए |  राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया गया  |  बेटे रोहन ने अरुण जेटली को मुखाग्नि दी  |  इस दौरान वहां तेज आंधी और बारिश आ गई |   मानो लगा कि प्रकृति भी उनके जाने से गमगीन हो गई हो  |  एम्स में 9 अगस्त से भर्ती पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का शनिवार की  दोपहर निधन हो गया  |  अरुण जेटली का पार्थिव शरीर बीजेपी मुख्यालय में अंतिम दर्शन के लिए रखा गया था | जहाँ बड़ी संख्या में उनके शुभचिंतकों और बीजेपी कारकर्ताओं ने उनकी देह पर श्रद्धा सुमन अर्पित किये |   एक बजे तक भाजपा मुख्यालय में उनके अंतिम दर्शन  लोगों ने किये  |  इससे पहले  उनका पार्थिव शरीर घर से भाजपा मुख्यालय  लाया गया था  | उनकी शवयात्रा भाजपा मुख्यालय से निकलकर करीब एक बजे निगमबोध घाट पहुंच गई थी  |  निगम बोध घाट पर उनके राजनीतिक साथी और विरोधी दोनों ही मौजूद थे  |  इस दौरान उप राष्ट्रपति एम वैंकैया नायडू, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और जेपी नड्डा सहित भाजपा के कई नेता वहां मौजूद थे |   उनका पार्थिव शरीर एक तोपगाड़ी में रखा गया था, जिसको सेना के एक ट्रक से खीचा जा रहा था  |  ट्रक पर उनके पुत्र और परिवार के दूसरे खास सदस्यों के साथ कुछ वरिष्ठ भाजपा नेता सवार थे  |  राजधानी के  प्रमुख रास्तों से गुजरती हुई अंतिम यात्रा निगमबोध घाट की ओर धीरे-धीर बढ़ रही थी  |  रास्ते में हर कोई अपने प्रिय नेता को विदाई देने के लिए खड़ा था | अंतिम यात्रा के साथ बड़ी संख्या में भाजपा नेता और शुभचिंतक चल रहे थे  | निगमबोध घाट   पर राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया गया   |  बेटे रोहन ने अरुण जेटली को मुखाग्नि दी | इस दौरान वहां तेज आंधी और बारिश हुई  |  केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली को पार्टी मुख्यालय में श्रद्धांजलि अर्पित की | इससे पहले  भाजपा और कांग्रेस समेत कई बड़े नेताओं ने जेटली के घर पर पहुंचकर अंतिम दर्शन किए और श्रद्धांजलि दी | वरिष्ठ कांग्रेसी नेता मोतीलाल वोहरा, एनसीपी नेता शरद पवार और प्रफुल पटेल, आरजेडी नेता अजीत सिंह और आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने अरुण जेटली के घर पर पहुंच कर उन्हें श्रद्धांजलि दी  | कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और राहुल गांधी भी अरुण जेटली के घर पहुंचे और अरुण जेटली को श्रद्धांजलि दी  |  भारतीय जनता पार्टी के लिए यह दूसरा बड़ा झटका है |  अभी कुछ ही दिनों पहले पूर्व विदेश मंत्री रही सुषमा स्वराज ने भी अपनी देह त्याग दी थी  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 ARUN JAITLEY

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का बीमारी के बाद निधन  पिछले लम्बे समय से बीमार थे अरुण जेटली    लंबे समय से एम्स में गंभीर हालत में भर्ती पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का 66 वर्ष की उम्र में निधन हो गया है | दो दिन से जेटली की हालत कुछ ज्यादा ही खराब थी  | एम्स में भर्ती जेटली की हालत शुक्रवार से ही बिगड़ती जा रही थी और शनिवार दोपहर  उन्हें मृत घोषित कर दिया गया  | रविवार की दोपहर उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा  | जेटली के निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  | राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद | आरएसएस पमुख मोहन भगवत सहित तमाम लोगों उन्हें श्रदांजलि दी है | जेटली के निवास पर उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित करने वालों का ताँता लग गया  |   अरुण जेटली के निधन के बाद एम्स से उनके पार्थिव देह को उनके आवास ले जाया गया जहां जेटली के प्रशंसकों ने उनके अंतिम दर्शन किये | रविवार   उनकी देह को भाजपा मुख्यालय में रखा जाएगा जहां आम जनता उनके अंतिम दर्शन कर सकेगी  |अरुण जेटली का अंतिम संस्कार  निगम बोध घाट पर किया जाएगा  | जेटली 9 अगस्त से एम्स में भर्ती थी और लगातार उनकी हालत गिरती जा रही थी  | ऐसे में उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था और एक के बाद एक बड़े नेताओं का उनसे मिलने का सिलसिला जारी था  |  जेटली के निधन की खबर मिलने के बाद भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा व अन्य नेता एम्स एम्स पहुंचे और उन्हें श्रद्धांजलि दी  | पूर्व केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने शुक्रवार को ही एम्स पहुंचकर जेटली के स्वास्थ्य की जानकारी ली थी | राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, आरएसएस के सर संघचालक मोहनभागवत, पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी समेत विभिन्न दलों के नेता, केंद्रीय मंत्री और विभिन्न क्षेत्रों के गणमान्य लोग एम्स पहुंचकर उनकी तबियत की जानकारी ले चुके थे  | सितंबर 2014 में वजन कम करने के लिए मैक्स अस्पताल में उनकी बैरियाट्रिक सर्जरी की गई थी  | इसके बाद पिछले साल उन्हें किडनी की बीमारी होने की बात सामने आई थी | इस वजह से मई 2018 में AIIMS में उनकी किडनी प्रत्यारोपण सर्जरी भी हुई  |  इसके कुछ महीने बाद उन्हें सॉफ्ट टिश्यू कैंसर होने का मामला सामने आया था  | भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और सुप्रीम कोर्ट के प्रतिष्ठित वकील रहे अरुण जेटली अपने राजनीतिक जीवन में कई महत्वपूर्ण पदों पर रहे | मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में अरुण जेटली ने बतौर वित्त मंत्री जिम्मेदारी संभाली थी  | देश में GST भी जेटली के कार्यकाल के दौरान ही किया गया था   | जेटली ने साल 1991 में भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ली थी  |  पिछले लगभग तीन दशक से वे पार्टी के एक महत्वपूर्ण सदस्य बन गए थे |1999 में लोकसभा चुनाव के पहले जेटली को भाजपा का राष्ट्रीय प्रवक्ता बनाया गया था  |  अरुण जेटली ने श्रीराम कॉलेज ऑफ कॉमर्स से ग्रेजुएशन किया था |  छात्र रुप में अपने करियर के दौरान उन्हें कई सम्मान भी मिले  | साल 1974 में वे दिल्ली यूनिवर्सिटी के छात्र संघ के अध्यक्ष भी रहे थे | वहीं, अटल सरकार में 1999 में ही उन्हें सूचना एवं प्रसारण राज्य मंत्री नियुक्त किया गया था |  साल 2000 में राम जेठमलानी के इस्तीफे के बाद अरुण जेटली को कानून, न्याय और कंपनी मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार दिया गया था | राजग सरकार हटने के बाद उन्हें पार्टी ने महासचिव की जिम्मेदारी भी दी | पार्टी के वन मैन वन पोस्ट नियम के बाद उन्होंने इस पद से  इस्तीफा दे दिया  | राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट कर जेटली के निधन पर दुख जताया है |  उन्होंने लिखा है कि अरुण जेटली जी किसी भी महत्वपूर्ण काम को बड़ी ही शिष्टता, जुनून और अध्ययन की समझ के साथ पूरा कर देते थे  |  उनका जाना एक गहरा शून्य छोड़ गया है  | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने यूएई दौरे के बीच अरुण जेटली के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है  |  उन्होंने लिखा है कि, अरुण जेटली जी एक राजनीतिक दिग्गज थे, जो बौद्धिक और कानूनी रूप से जीवंत थे  |  वह एक मुखर नेता थे जिन्होंने भारत में स्थायी योगदान दिया | उनका निधन बहुत दुखद है  | प्रधानमंत्री ने अपने अगले ट्वीट में उन्होंने लिखा है कि जिंदगी से भरपुर, चुटीले जेटली जी को हर स्तर के लोग पसंद करते थे | जेटली के निधन पर  रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट करते हुए राजनीति में उनके योगदान को याद किया | राजनाथ सिंह ने लिखा है अरुण जेटली जी के रूप में एक दोस्त और बेहद महत्वपूर्ण साथी खोकर बेहद दुख में हूं  | वहीं गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट कर अरुण जेटली के निधन पर शोक जताया है  | उन्होंने लिखा  अरुण जेटली जी के निधन से अत्यंत दुःखी हूं, जेटली जी का जाना मेरे लिये एक व्यक्तिगत क्षति है  |  उनके रूप में मैंने न सिर्फ संगठन का एक वरिष्ठ नेता खोया है बल्कि परिवार का एक ऐसा अभिन्न सदस्य भी खोया है जिनका साथ और मार्गदर्शन मुझे वर्षो तक प्राप्त होता रहा  |  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

   CHIDAMBARAM

चिदंबरम के मामले की सुनवाई अब सोमवार को    INX Media Case में पी चिदंबरम की अंतरिम याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू हुई लेकिन वहां से भी उन्हें फिलहाल कोई राहत नहीं मिली |  अदालत इस मामले की सुनवाई अब सोमवार को करेगी   | दिल्ली हाईकोर्ट से जमानत याचिका रद्द होने के बाद चिदंबरम ने शीर्ष कोर्ट का रुख किया था |  इसके पूर्व बुधवार को सुप्रीम कोर्ट ने तत्काल सुनवाई से इंकार कर दिया था  |   सुनवाई के दौरान वकील कपिल सिब्बल ने पी चिदंबरम को अग्रिम जमानत दिए जाने के पक्ष में तर्क रखे हालांकि इस दौरान कोर्ट ने उनसे पूछा कि पी चिदंबरम को कब तक सीबीआई की कस्टडी में दिया गया गया  |  इसके बाद कोर्ट ने अग्रिम याचिका को लेकर अगली सुनवाई सोमवार को तक टाल दी  |  मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पी चिदंबरम की तरफ से कपिल सिब्बल द्वारा बताया गया है कि पहले 19 महीनों तक अग्रिम जमानत को लटकाया गया |  फिर खारिज कर दिया गया था  |  सीबीआई की विशेष अदालत ने गुरुवार को इसी मामले में चिदंबरम को 26 अगस्त तक सीबीआई रिमांड पर भेजने का फैसला सुनाया था  |  कोर्ट ने कहा था कि चिदंबरम के खिलाफ लगे सभी आरोप गंभीर है, इनकी गहराई से जांच की जाना चाहिए  |    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 RAFALE

रक्षा मंत्री के नेतृत्व में फ्रांस से लाया जाएगा   जिस राफेल विमान खरीदी को कांग्रेस ने लोकसभा और कईं विधानसभा चुनावों में मुद्दा बनाया वही राफेल विमान आखिरकार भारत आने को तैयार है | देश की सेना को पहला राफेल विमान 20 सितंबर को मिल जाएगा  | इस फायटर जेट को लेने के लिए रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ स्वयं फ्रांस जाएंगे |  फ्रांस से मिलने वाले राफेल युद्धक विमानों के दो स्क्वाड्रन हरियाणा के अंबाला और पश्चिम बंगाल के हाशिमारा एयरबेस पर तैनात किए जाएंगे  |  इन 36 राफेल विमानों में से पहला विमान भारत को आगामी 20 सितंबर को मिलेगा  | रक्षा अधिकारियों ने बुधवार को बताया कि हरियाणा स्थित अंबाला वायुसेना के हवाई अड्डे पर पहले से जागुआर युद्धक विमान तैनात हैं  | आने वाले समय में यहां करीब 18 राफेल विमान भी तैनात किए जाएंगे | इसी तरह भूटान सीमा के नजदीक स्थित पश्चिम बंगाल के हाशिमारा एयरबेस पर इतने ही राफेल विमानों की तैनाती होगी  | अधिकारियों ने बताया कि केंद्र सरकार अत्याधुनिक राफेल विमान लाने के लिए रक्षा मंत्री के नेतृत्व में एक बड़ा दल सितंबर के तीसरे हफ्ते में फ्रांस भेज रही है  | फ्रेंच कंपनी दासौ के बने राफेल विमान की निर्माण ईकाई बोर्डाक्स के करीब स्थित है  | रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के नेतृत्व में भारतीय प्रतिनिधिमंडल को पहला राफेल विमान यहीं सौंपा जाएगा  |  शेष राफेल युद्धक विमान अगले साल मई में भारत आने शुरू हो जाएंगे  |  भारतीय राफेल विमान में भारत की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए उसे कई विशेष शस्त्रों और उपकरणों से लैस किया गया है  |  भारतीय पायलटों की छोटी-छोटी टुकड़ियों को राफेल विमान उड़ाने का प्रशिक्षण दिया जा रहा है  |   अगले साल मई में भारतीय वायुसेना 24 पायलटों को तीन अलग-अलग बैचों में प्रशिक्षित करेगी   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 MANMOHAN SINGH

देश परेशान करने वाले हालातों का बना गवाह   देश के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने पिछले कुछ सालों में देश में बने हालातों पर चिंता जताई है  |   पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की जयंती पर आयोजित कार्यक्रम के दौरान मनमोहन सिंह ने ये बात कही  | उन्होंने मॉब लिंचिंग सहित अन्य घटनाओं का इस दौरान जिक्र किया |  पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने कहा कि 'देश पिछले कुछ सालों में परेशान करने वाले ट्रेंड्स का गवाह बना है   |  ये हालात बढ़ती असहिष्णुता, साम्प्रदायिक ध्रुवीकरण, किसी विशेष समूह द्वारा किए जाने वाले हिंसक अपराध और मॉब लिंचिंग जैसी घटनाओं से बने हैं  |  इस वजह से हमारी राजनीति को नुकसान पहुंचा है  |   राजीव गाँधी की जयंती के अवसर पर विपक्ष ने मोदी सरकार के कार्यकाल के दौरान हुई कुछ घटनाओं को लेकर सरकार को कटघरे में खड़ा किया  | कांग्रेस नेताओं ने कहा देश में मॉब लिंचिंग के साथ ही वर्ग विशेष द्वारा किए जाने वाले अपराधों में इजाफा हुआ है |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 BAM VISFOT

महिला और बच्चों सहित 182 घायल   काबुल में शादी की पार्टी में धमाका  होने से अफरातफरी मच गई  |  इस धमाके में 63 लोगों की जान चली गई और  182  लोग जख्मी हो गए  | माना जा रहा है यह एक आत्मघाती हमला है जिसे आतंकवादी संगठन ने अंजाम दिया है  |  शनिवार की रात काबुल के एक होटल में चल रही शादी की पार्टी में एक विस्फोट हुआ  | इसमें 63 लोगों के मारे जाने की खबर है  |  विस्फोट में   महिलाओं और बच्चों सहित कम से कम 182 लोग घायल हो गए  |  एक स्थानीय अस्पताल ने कहा कि हमारे यहां इलाज के लिए कई घायलों को लाया गया है, जबकि एक गवाह ने बताया कि उन्होंने घटनास्थल पर कई शवों को देखा  | एक शादी की पार्टी के दौरान होटल में यह धमाका किया गया  | यह विस्फोट ऐसे समय में हुआ है अमेरिका और तालिबान एक समझौते पर हस्ताक्षर करने जा रहे हैं, जिसके तहत करीब 14 हजार अमेरिकी सैनिकों की वहां से निकासी शुरू हो जाएगी  | इसके बदले में विद्रोहियों ने विभिन्न सुरक्षा आश्वासन अमेरिका को दिए हैं  | अफगान शादियां भव्य होती हैं, जिसमें सैकड़ों या कई बार हजारों मेहमान विशालकाय विवाह मंडपों के अंदर जश्न मनाते हैं  |  यहां पुरुष आमतौर पर महिलाओं और बच्चों से अलग शिरकत करते हैं  | धमाके के बाद करीब 20 मिनट के लिए हॉल धुएं से भर गया था |   पुरुषों के क्षेत्र में मौजूद अधिकांश लोग मारे गए या गंभीर रूप से घायल हो गए हैं  | किसी भी आतंकी समूह ने विस्फोट की जिम्मेदारी नहीं ली है   | सरकारी प्रवक्ता फिरोज बशारी ने कहा कि विस्फोट एक स्पष्ट संकेत था कि आतंकवादी अफगानों की खुशी नहीं देख सकते  |  उन्होंने ट्विटर पर लिखा- आप उनकी हत्या कर उन्हें नहीं झुका सकते हैं  | आज रात के हमलावरों को न्याय के कठघरे में खड़ा किया जाएगा |             

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 NARENDRA  MODI

इसरो थिम्पू में अर्थ स्टेशन बनाएगा  भूटान के वैज्ञानिक भी सेटेलाइट बनाएंगे   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भूटान की रॉयल यूनिवर्सिटी  में कहा कि  मुझे उम्मीद है कि जल्द ही आप में से कई वैज्ञानिक, इंजीनियर और इनोवेटर्स होंगे|   मोदी ने कहा कि मैं उम्मीद करता हूं कि भूटान के वैज्ञानिक भी सेटेलाइट बनाएंगे |  हमने दक्षिण एशिया उपग्रह के थिंपू ग्राउंड स्टेशन का उद्घाटन किया और अपने अंतरिक्ष सहयोग का विस्तार किया | उपग्रहों के जरिए टेली मेडिसिन के लाभ, दूरस्थ शिक्षा, मानचित्रण, मौसम पूर्वानुमान, प्राकृतिक आपदाओं की चेतावनी आदि सुनिश्चित होगी |   पीएम मोदी ने कहा कि आज, भारत तमाम सेक्टर में ऐतिहासिक परिवर्तनों का गवाह बन रहा है |   पिछले पांच साल में बुनियादी ढांचे के निर्माण की रफ्तार दोगुनी हो गई है |  उन्होंने कहा कि भारत और भूटान की साझा संस्कृति है |   आज के समय में अवसरों की कमी नहीं है |  भारत और भूटान के लोगों में जबर्दस्त जुड़ाव है  |  पीएम मोदी ने यूनिवर्सिटी के छात्रों से कहा कि वे परीक्षा को लेकर कतई तनाव न लें |   पीएम मोदी ने अपनी लिखी पुस्तक एग्जाम वॉरियर्स की भी चर्चा की. कहा कि यह पुस्तक बुद्ध की शिक्षा से प्रेरित होकर उन्होंने लिखी थी.  |  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि युवा और आध्यात्मिकता हमारी ताकत है |  इससे पहले भूटान के प्रधानमंत्री शेरिंग और पीएम मोदी ने शनिवार को संयुक्त बयान जारी किया था |   इस दौरे के दौरान प्रधानमंत्री मोदी दोनों देशों के द्विपक्षीय रिश्तों को अधिक मजबूत करने के लिए भूटानी नेताओं के साथ चर्चा की  |  पीएम मोदी ने 9 समझौता  पर हस्ताक्षर किए |  इनमें से एक समझौते के तहत इसरो थिम्पू में अर्थ स्टेशन बनाएगा |   इसके अलावा दोनों देशों के बीच एक बिजली खरीद समझौता भी हुआ | अन्य समझौते के तहत विमान हादसे और दुर्घटना की जांच, न्यायिक शिक्षा, अकादमिक और सांस्कृतिक आदान-प्रदान, विधिक शिक्षा और शोध के क्षेत्र में एमओयू किए गए |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 JAMMU AND CHIN

रूस ने निभाई भारत से दोस्ती   संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि सैयद अकबरुद्दीन ने जमकर पकिस्तान और चीन को लताड़ा  | ऐसे में रूस ने भारत से मित्रता निभाई और भारत के साथ खड़ा हो गया  |  संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भी आतंकवाद के समर्थक देश पकिस्तान और उसके सहयोगी चीन को तगड़ा झटका लगा है  |  कश्मीर मसले पर आतंक समर्थक देश पकिस्तान के साथ खड़ा होने से चीन की किरकिरी होना शुरू हो गई है  | संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में चीन की मांग पर जम्मू कश्मीर मुद्दे को लेकर बैठक हुई |   कश्मीर को लेकर जहां रूस भारत के पक्ष में नजर आया  वहीं चीन ने पाकिस्तान के सुर में सुर मिलाए  | हालांकि रूस ने कश्मीर को लेकर सिर्फ द्विपक्षीय बातचीत का समर्थन किया है |  यूएनएससी की बैठक खत्म होने के बाद चीनी राजदूत ने कहा कि भारत ने जो संवैधानिक संशोधन किया है उससे मौजूदा स्थिति बदल गई है | वहीं संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि सैयद अकबरुद्दीन ने कहा कि अनुच्छेद 370 भारत का आंतरिक मसला है.|  इसमें बाहरी लोगों की जरूरत नहीं है. जम्मू-कश्मीर के सामाजिक और आर्थिक विकास को बढ़ावा देने के लिए भारत ने यह फैसला लिया है.|  अकबरुद्दीन ने कहा कि पाकिस्तान जिहाद की बात कर हिंसा फैला रहा है |  हम अपनी नीति पर हमेशा की तरह कायम हैं |  हिंसा किसी भी समस्या का हल नहीं है|  उन्होंने कहा कि बातचीत से पहले पाकिस्तान को आतंकवाद को रोकना होगा |  यह भी पहली ही बार है, जब संयुक्त राष्ट्र जैसी संस्था को बंद कमरे में बैठक करनी पड़ी है | वहीं कश्मीर पर यूएन के इतिहास में दूसरी बार  है |       

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 KAJLI MAHAUTSAV

खजुराहो में बनेगा अंतराष्ट्रीय शूटिंग सेंटर     विश्व पर्यटक स्थल खजुराहो मे  कजली महोत्सव के अवसर पर  शूटिंग प्रतियोगिता का आयोजन किया गया   | आयोजन में नगरीय प्रशासन मंत्री जयवर्धन सिंह भी शामिल हुए  | जहाँ जयवर्धन ने  निशानेबाजी  का प्रदर्शन किया |  इस मौके पर जयवर्धन सिंह ने खजुराहो में अंतर्राष्ट्रीय शूटिंग सेंटर बनाने की घोषणा की  |  विश्व पर्यटन स्थल खजुराहो मे  कजली महोत्सव के अवसर पर दो दिवसीय  शूटिंग प्रतियोगिता का आयोजन किया गया   |  जिसमे नगरीय प्रशासन मंत्री जयवर्धन सिंह भी शामिल हुये   | प्रतियोगिता का आयोजन पश्चिम मध्य समूह के मंदिर  स्थित शिल्प सागर तालाब पर  किया गया  | प्रतियोगिता में  प्रदेश से आये  निशानेबाजो ने अपने हुनर का प्रदर्शन किया  | और लाईसेंसी बंदूक  से  ताबड़तोड़ फायरिंग कर निशाना साधा   | दर्शकों ने निशानेबाजी की कला का लुफ्त उठाया  |  नगरीय विकास एवं आवास मंत्री  जयवर्द्धन सिंह ने खजुराहो में निशानेबाजी प्रतियोगिता का निशाना लगाकर शुभारंभ किया  | हालाँकि  उनका निशाना सही जगह नही लग सका  | गौरतलब है की  कजली महोत्सव खजुराहो मे 10 साल से आयोजित किया जा रहा है  | राजाओं की शान के प्रतीक के रूप में खजुराहो में रक्षाबंधन के बाद  निशानेबाजी की प्रतियोगिता का आयोजन किया जात्ता है   | नगरीय प्रशासन मंत्री ने आयोजन की सराहना की   | और कहा की  खजुराहो मे अंतरराष्ट्रीय शूटिंग सेंटर बनाया जायेगा  |  मुख्यमंत्री कमलनाथ से इस बारे चर्चा की जाएगी  |     

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 SUPREME COURT

 कहा- हालात सामान्य होने में लगेगा वक्त   सुप्रीम कोर्ट से अनुच्छेद 370 हटाए जाने और राज्य में हालात को लेकर दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए सर्वोच्च न्यायालय ने इस मामले में दखल से इनकार कर दिया है | साथ ही सर्वोच्च न्यायालय ने सरकार को हालात सामान्य करने के लिए वक्त भी दिया है  |  जम्मू-कश्मीर में प्रतिबंध और कर्फ्यू हटाए जाने तथा मोबाइल व इंटरनेट सेवा शुरू करने की मांग करने वाली तहसीन पूनावाला की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को सुनवाई की |  तहसीन पूनावाला की याचिका में जम्मू-कश्मीर में कर्फ्यू और प्रतिबंध हटाए जाने और मोबाइल व इंटरनेट सेवाएं बहाल करने की मांग की गई है  |   साथ ही याचिका में हिरासत में लिए गए नेताओं को तत्काल रिहा करने की भी मांग की गई थी  |  इस पर जस्टिस अरुण मिश्रा, जस्टिस एमआर शाह और जस्टिस अजय रस्तोगी की पीठ ने कहा कि रातों रात हालात सामान्य नहीं हो सकते  |  इसमें कुछ वक्त लगेगा  | यह कहते हुए कोर्ट ने मामले मंर दखल से इनकार कर दिया  | अब इस मामले में अगली सुनवाई 2 हफ्ते बाद होगी  | राष्ट्रपति ने आदेश जारी कर जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्छेद 370 को समाप्त कर दिया है  |  इतना ही नहीं जम्मू-कश्मीर को दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांट दिया गया है  | संसद के दोनों सदनों से अनुच्छेद 370 खत्म करने का प्रस्ताव भारी बहुमत से पास होने के बाद राष्ट्रपति ने आदेश जारी किया था  | इसके बाद राज्य में सुरक्षा के लिहाज से कुछ कदम उठाए गए हैं  |             

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 MANMOHAN SINGH

जम्मू कश्मीर के नागरिकों की आवाज सुनी जाए    जम्मू कश्मीर पर देश एक जुट हो रहा है ऐसे में धारा 370 को लेकर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का बयान सामने आया है  | मनमोहन सिंह ने कहा है कि  सरकार के इस फैसले को कई लोग पसंद नहीं कर रहे हैं  | भारत के विचार को जिंदा रखना है तो जम्मू कश्मीर के नागरिकों की आवाज सुनी जानी चाहिए   मोदी सरकार द्वारा कश्मीर से अनुच्छेद 370 और अनुच्छेद 35ए हटाए जाने के  मामले को लेकर देश के पूर्व प्रधानमंत्री रहे मनमोहन सिंह ने भी अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि अगर भारत के विचार को जिंदा रखना है तो जम्मू कश्मीर के नागरिकों की आवाज सुनी जानी चाहिए  | सिंह ने कहा कि सरकार के इस फैसले को कई लोग पसंद नहीं कर रहे हैं  |  इस दौरान पूर्व पीएम ने कहा कि इन दिनों देश इन दिनों एक गंभीर संकट से गुजर रहा है  |  मोदी सरकार द्वारा 5 अगस्त को राज्यसभा में अनुच्छेद 370 को लेकर संकल्प पत्र पेश करते ही देश की सियासत गरमा गई थी  | खुद कांग्रेस के भीतर से भी इस बिल के समर्थन में आवाज उठने लगी हैं  |  एक तरफ जहां कांग्रेस इसका विरोध कर रही थी  |  वहीं पार्टी के राज्यसभा मे चीफ व्हिप ने ही इसके विरोध में पार्टी से अपना इस्तीफा दे दिया   |  राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के करीबी माने जाने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी सरकार के इस फैसले का समर्थन किया था |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 KASHMIR TRUMP

मध्यस्थता से अब डोनाल्ड ट्रंप का इनकार आतंक समर्थक पकिस्तान से सब ने हाथ खींचे    वैश्विक स्तर पर एक बार फिर पाकिस्तान को झटका लगा है | कश्मीर पर किसी भी तरह की मध्यस्थता करने के अमेरिकी प्रशासन ने इंकार कर दिया है|   अमेरिका ने कश्मीर को द्विपक्षीय मुद्दा बताया है|  कश्मीर मुद्दे पर अमेरिका ने अपना रूख पूरी तरह साफ कर दिया है|  अमेरिकी प्रशासन ने कह दिया है कि कश्मीर भारत-पाकिस्तान का द्विपक्षीय मसला है और अमेरिका इसमें कतई दखल नहीं देगा| अमेरिका ने मध्यस्थता करने से साफ इंकार कर दिया है| अमेरिका में भारत के राजदूत हर्षवर्धन सिंगला ने कहा कि अमेरिका अपनी पुरानी नीति पर चलना चाहता है|  अमेरिका चाहता है कि भारत और पाकिस्तान एक साथ मिलकर इस मुद्दे को सुलझाने की कोशिश करें|  राजदूत हर्षवर्धन ने कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड पहले ही साफ कर चुके हैं कि अगर भारत और पाकिस्तान चाहते हैं कि वे मध्यस्थता करें तो वे मध्यस्थता कर सकते हैं| लेकिन भारत का रुख साफ है कि कश्मीर द्विपक्षीय मुद्दा है, जिस पर फैसला केवल दोनों देश कर सकते हैं| भारत का कश्मीर पर हमेशा से रुख स्पष्ट रहा है कि यह एक आंतरिक मुद्दा है, जिस पर किसी तीसरे देश का दखल स्वीकार नहीं किया जाएगा  |  जम्मू-कश्मीर पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान दुनिया के सामने मदद की गुहार लगा रहे हैं, लेकिन पाकिस्तान के प्रोपेगेंडा को किसी देश में तवज्जो नहीं मिल रही है|  पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी चीन दौरे पर मदद मांगने गए थे लेकिन वहां भी पाकिस्तान को निराशा हाथ लगी है| भारत को दुनिया के कई देशों से जम्मू और कश्मीर से धारा 370 हटाने के फैसला का समर्थन मिल चुका है|  इस फैसले पर भारत का समर्थन रूस ने भी किया है.|   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 SONIYA GHANDHI

कोंग्रेसी  अन्य नाम पर नहीं हुए एक राय    लोकसभा चुनाव में करारी शिकस्त के बाद राहुल गाँधी ने अध्यक्ष पद छोड़कर नया अध्यक्ष चुनने की जवाबदारी कांग्रेस नेताओं को दी थी  | लेकिन लम्बी मशक्क्त के बाद भी कांग्रेस नेता किसी नाम पर एक राय नहीं बना पाए और थक हार कर एक बार फिर सोनिया गाँधी को कांग्रेस का आंतरिम अध्यक्ष बनाया गया  कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में सोनिया का नाम तय हुआ और उन्हें एक बार फिर अध्यक्ष पद की  जिम्मेदारी सौंपी गई  | पूरी कांग्रेस ने एक बार फिर गांधी परिवार के सदस्य को अपना अध्यक्ष चुना   | शनिवार को हुई कांग्रेस वर्किंग कमेटीकी बैठक के बाद पार्टी ने ऐलान किया कि राहुल गांधी का इस्तीफा स्वीकार कर लिया गया है और अगले अध्यक्ष के चुनाव तक सोनिया गांधी पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष बनी रहेंगी |  अब अखिल भारतीय कमेटी का सत्र बुलाया जाएगा और नए अध्यक्ष का चयन होगा   |  अभी अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की बैठक की  तारीख तय नहीं है |  सोनिया गाँधी  सबसे लंबे समय तक कांग्रेस पार्टी की अध्यक्ष रही हैं  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 CONGRESS KARYALAYA

मुकुल वासनिक के नाम पर सहमति के आसार    सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस की कमान गांधी परिवार के हाथ से छूटेगी  | पिछले ढाई महीने से कांग्रेस में नेतृत्व का संकट है ऐसे में सभी कोंग्रेसियों की निगाहें गाँधी परिवार पर ही टिकी हैं  |  लेकिन माना जा रहा है मुकुल वासनिक को ये जिम्मेदारी दी जा सकती  है  |  मुकुल वासनिक के अलावा भी आधा दर्जन नेताओं के नामों पर कांग्रेस नेता  C W C  में हर ऐंगल से चर्चा कर रहे हैं  |  बैठक में फैसला हुआ है कि पार्टी अध्यक्ष चुनने के लिए पांच समूह बनेंगे  |  राहुल गांधी चाहते हैं कि लगातार और वृहद चर्चा के बाद ही पार्टी के नेता  |  नए अध्यक्ष का फैसला करें  |  कांग्रेस  वर्किंग कमेटी की बैठक में नए कांग्रेस अध्यक्ष के नाम पर चर्चा हो रही है  |  पार्टी के अंतरिम अध्यक्ष की बात करें तो इस रेस में फिलहाल पार्टी महासचिव मुकुल वासनिक सबसे प्रबल दावेदार माने जा रहे हैं   | वरिष्ठ नेताओं में मल्लिकार्जुन खड़गे के अलावा पूर्व गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे, पूर्व लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार और पूर्व केंद्रीय मंत्री कुमारी शैलजा के नाम भी संभावितों में हैं  | ये सभी नेता अनुसूचित जाति से हैं  | युवा दावेदारों की बात करें तो इनमें राजस्थान के उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट का नाम है   |  वहीं ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अनुच्छेद 370 पर पार्टी लाइन की मुखालफत कर खुद को दौड़ से बाहर कर लिया है  | सीताराम केसरी को हटाए जाने के बाद मार्च 1998 में सोनिया गांधी ने कांग्रेस अध्यक्ष की कमान संभाली थी और दिसंबर 2017 तक करीब 20 वर्षों तक पार्टी की कमान उनके हाथ में रही  | जबकि राहुल गांधी का कार्यकाल महज 20 महीने का ही रहा है   |  पार्टी के हाशिए पर चले जाने के बाद भी गांधी परिवार से बाहर के नेतृत्व को स्वीकार करने को लेकर नेताओं में सहजता नहीं दिख रही |  राहुल गांधी चाहते हैं कि लगातार और वृहद चर्चा के बाद ही पार्टी के नेता नए अध्यक्ष का फैसला करें |   जानकारी के मुताबिक, राहुल गांधी ने संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल को कहा है कि इस मसले पर और चर्चा कीजिए और सलाह मशवरा कीजिए |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 PAKISTAN

भारत ने 370 पर संवैधानिक फैसला लिया   जम्मू-कश्मीर पर भारत के फैसले का रूस ने समर्थन किया है.| रूस के विदेश मंत्रालय ने कहा कि भारत ने जम्मू और कश्मीर को दो भागों में विभाजित और केंद्र शासित प्रदेश बनाने का फैसला संविधान के अनुसार ही लिया है|   रूस के विदेश मंत्रालय की  कहा गया,  हमें उम्मीद है कि भारत-पाकिस्तान के मतभेदों को द्विपक्षीय आधार पर राजनीतिक और राजनयिक तरीकों से हल किया जाएगा   |  भारत और पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर में किए गए बदलाव के बाद किसी तरह के तनाव को बढ़ावा नहीं देंगे |  वहीं चीन ने भी भारत और पाकिस्तान से अपने विवादों को सुलझाने के लिए बातचीत करने का आग्रह किया.|  बता दें कि चीन की यह प्रतिक्रिया पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी के चीन से परामर्श के लिए पहुंचने के बाद शुक्रवार को आई|  पाकिस्तान के विदेश मंत्री कुरैशी, भारत की ओर से जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को रद्द किए जाने के मद्देनजर अगला कदम लेने के लिए चीन से राय लेने पहुंचे हैं|  चीन विदेश मंत्रालय ने कहा कि हम पाकिस्तान और भारत से बातचीत के जरिए विवाद को सुलझाने व संयुक्त रूप से शांति एवं स्थिरता को कायम रखने का आह्वान करते हैं | भारत ने कहा कि अब पाकिस्तान को जम्मू एवं कश्मीर के सच को स्वीकार कर लेना चाहिए और उसे भारत के आंतरिक मामलों में दखल देना पूरी तरह बंद कर देना चाहिए | विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि जम्मू एवं कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा वापस लिए जाने के बाद पाकिस्तान को चिंता है कि अब वह वहां कश्मीरी लोगों को गुमराह कर आतंक के लिए प्रेरित नहीं कर सकेगा | .  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 MS DHONI

एमएस धोनी अभी ड्यूटी पर कश्मीर में हैं    भारतीय क्रिकेटर और लेफ्टिनेंट कर्नल महेंद्रसिंह धोनी स्वतंत्रता दिवस पर लेह में तिरंगा फहराएंगे  |  धोनी इस समय  सेना की 106 टीए बटालियन  के साथ कश्मीर में पोस्टेड हैं  |  महेंद्र सिंह धोनी अपनी बटालियन के साथ शनिवार को लद्दाख जाएंगे |  लद्दाख को हाल ही में केंद्र शासित प्रदेश का दर्जा मिला है |   धोनी 31 जुलाई को अपनी बटालियन के साथ जुड़े थे और वे 15 अगस्त तक उसके साथ रहने वाले हैं   | स्वतंत्रता दिवस पर धोनी लेह में किस जगह पर ध्वज फहराएंगे इसके बारे में अभी कोई खुलासा नहीं किया गया है |  लेकिन माना जा रहा है धोनी लेह में तिरंगा फहराएंगे  | धोनी ने इंडियन आर्मी की सेवा करने के लिए क्रिकेट से करीब दो महीने का ब्रेक लिया है |   उन्होंने हाल ही में संपन्न वर्ल्ड कप में हिस्सा लिया था, जहां भारतीय टीम उपविजेता बनी थी   | धोनी इंडियन आर्मी के ब्रांड एम्बेसडर है  | वे  अपनी यूनिट के जवानों के साथ फुटबॉल तथा वॉलीबॉल खेल रहे हैं और वे उनका मनोबल बढ़ाने वाली गतिविधियों में हिस्सा ले रहे हैं  |  वे इसके अलावा पेट्रोलिंग, गार्ड और पोस्ट ड्यूटी को भी अंजाम दे रहे हैं|            

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

SAMJHOTA EXPRESS

अब समझौता एक्सप्रेस रद्द ,फ़िल्में भी बैन  इंजन भेज अपने यात्रियों सुरक्षित ले आया भारत   कश्मीर में धारा 370 हटाए  जाने से आतंकवादियों के समर्थक देश पकिस्तान को सबसे ज्यादा तकलीफ हुई है |  बौखलाए पाकिस्तान ने समझौता एक्सप्रेस  को रद्द कर भारतीय फिल्मों को भी पाकिस्तान में प्रतिबंधित कर दिया है |  हालांकि पकिस्तान की इन हरकतों से भारत की सेहत पर कोई असर नहीं पड़ने वाला |  कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा वापस लेने के बाद से एक बार फिर भारत और पाकिस्तान के बीच तल्खी बढ़ गई है |  इसी कड़ी में आज आने वाली समझौता एक्सप्रेस के लिए पाकिस्तान द्वारा ड्रायवर और गार्ड नहीं दिया गया था |   इसके चलते भारतीय यात्री फंस गए थे |  पाकिस्तान ने हमेशा के लिए समझौता एक्सप्रेस को कैंसल करने की बात कही है  | इस बीच ट्रेन में फंसे यात्रियों को भारत लाने के लिए सरकार ने बड़ा कदम उठाते हुए क्रू के साथ इंजिन को भेजा था |  इसके जरिये ट्रेन में फंसे यात्रियों को वाघा से अटारी लाया गया | पाकिस्तान जहां इस मसले को यूएन में ले जाने की कोशिश कर रहा है  | वहीं इस बीच उसने भारत से राजनयिक और व्यापारिक रिश्ते तोड़ दिए हैं |  वहीं एक बार फिर पाकिस्तान सीमा पर माहौल खराब करने की कोशिश कर रहा है  | पाकिस्तान ने भारतीय उच्चायुक्त अजय बिसारिया को वापस भारत भेजने का फैसला किया है. जिसके बाद अब अजय बिसारिया इस्लामाबाद से लाहौर रवाना हो चुके हैं. वो वाघा-अटारी बॉर्डर से भारत पहुंचें | गुरुवार को समझौता एक्सप्रेस पर रोक लगाने के साथ ही पाकिस्तान में भारतीय फिल्मों के प्रदर्शन पर भी रोक लगा दी |  भारत ने आगे कहा, 'अनुच्छेद 370 से संबंधित फैसला पूरी तरह से भारत का आंतरिक मामला है  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 KARN SINGH

मोदी सरकार के समर्थन में कर्ण सिंह    कश्मीर राजघराने से जुड़े कांग्रेस नेता कर्ण सिंह ने धारा 370 के मसले पर केंद्र सरकार का समर्थन किया है  | कर्ण सिंह ने कहा कि सरकार के हर फैसले का अंधा विरोध नहीं करना चाहिए | जम्मू कश्मीर पर सरकार के इस निर्णय के कई सकारात्मक पहलू भी हैं |  कर्ण सिंह के बायान के बाद साफ़ है कि कश्मीर के मसले पर कांग्रेस दो फाड़ होती जा रही है और मात्र कुछ नेताओं के कारण आम जनता में कांग्रेस की किरकिरी हो रही है। मोदी सरकार द्वारा कश्मीर मामले को लेकर लिए गए निर्णय पर कांग्रेस का रुख भले ही विरोध का हो लेकिन कांग्रेस की सोच से पार्टी के ही कई आला नेता इत्तेफाक नहीं रखते हैं |  इस सूची में अब वरिष्ठ कांग्रेसी नेता कर्ण सिंह का नाम भी जुड़ गया है  | कर्ण सिंह ने कहा कि सरकार के हर फैसले का अंधा विरोध नहीं करना चाहिए |  कश्मीर  राजघराने से ताल्लुक रखने वाले कर्ण सिंह ने सरकार के लद्दाख को अलग कर उसे केंद्र शासित प्रदेश बनाने की भी तारीफ की है |  उन्होंने आर्टिकल 35ए, भविष्य के परिसीमन को ध्यान में रखते हुए राज्य पुनर्गठन को सही बताया है |  हालांकि कर्ण सिंह ने आर्टिकल 370 को लेकर सीधे कुछ नहीं बोला लेकिन उन्होंने राजनीतिक पार्टियों के नेताओं को छोड़ने और उनके साथ राजनीतिक वार्तालाप किए जाने की वकालात  की | जम्मू कश्मीर से धारा 35 ए खत्म होने के दो दिन बाद कर्ण सिंह का ये बयान सामने आया है |  उन्होंने लद्दाख और 35ए के निर्णय को लेकर सरकार का समर्थन किया है | मोदी सरकार का विरोध करने वाले कई राजनीतिक दल भी इस बिल पर सरकार के समर्थन में आए हैं | वहीं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और कर्ण सिंह के रिश्तेदार ज्योतिरादित्य सिंधिया भी सरकार की लाइन से अलग हटकर मोदी सरकार के निर्णय का समर्थन कर चुके हैं |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

PAK ATANGWADI

पाक के रवैये पर भारत की कड़ी आपत्ति    भारत ने पकिस्तान से दो टूक कहा कश्मीर हमारा है |  पाकिस्तान ने भारत के साथ द्विपक्षीय व्यापार पर रोक लगा दी है | पाकिस्तान के इस फैसले पर भारत ने कड़ी आपत्ति जाहिर की है और कहा है कि आतंकवाद के बहाने ढूंढने के लिए पाकिस्तान ये सब काम करता है|   जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद बौखलाए हुए आतंकवाद के समर्थक पाकिस्तान ने भारत से राजनयिक संबंधों में कमी कर दी | पाकिस्तान ने भारत के साथ द्विपक्षीय व्यापार पर रोक लगा दी है| पाकिस्तान के इस फैसले पर भारत ने कड़ी आपत्ति जाहिर की है और कहा है कि आतंकवाद के बहाने ढूंढने के लिए पाकिस्तान ये सब काम करता है |  विदेश मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया कि हमने रिपोर्ट देखी है कि पाकिस्तान ने भारत के साथ द्विपक्षीय संबंधों को लेकर एकतरफा कार्रवाई करने का फैसला किया है | भारत सरकार और संसद के हालिया फैसले जम्मू और कश्मीर में विकास के अवसरों का विस्तार करने की प्रतिबद्धता से प्रेरित हैं, जिन्हें पहले वंचित किया गया था | बयान में कहा गया है कि अगर जम्मू और कश्मीर में विकास को लेकर कोई कदम उठाए जाएं और पाकिस्तान में ये नकारात्मक रूप में जाए तो इसमें कोई हैरान नहीं होनी चाहिए |  वो सीमापार आतंकवाद को सही ठहराने के लिए ऐसे कदम उठाता है |  विदेश मंत्रालय ने कहा कि 370 से संबंधित हालिया घटनाक्रम पूरी तरह से भारत का आंतरिक मामला है |   भारत का संविधान हमेशा संप्रभुता का मामला था, है और रहेगा |  उस अधिकार क्षेत्र में हस्तक्षेप करने की कोशिश कभी सफल नहीं होगी |भारत सरकार ने पाकिस्तान द्वारा उठाए गए कदमों की निंदा की है | 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 GULAM NABI AAJAD

पैसे देकर आप किसी को भी साथ ले सकते हो   कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद में शोपियां की सड़क पर NSA अजीत डोभाल के खाना खाने के वीडिओ पर कहा कि पैसे देकर आप किसी को भी साथ ले सकते हो  इसके बाद बीजेपी ने सवाल उठाया कि कांग्रेस का यह मानना है की कश्मीर के लोग बिकाऊ हैं  आजाद के बयान के बाद कांग्रेस और विवादों में घिर गई है    370 के मामले पर कांग्रेस दो खेमों में बंट गई है   कांग्रेस के युवा नेता मोदी सरकार के कश्मीर पर लिए गए फैसले से खुश हैं और वो चाहते हैं पुराने नेता इस मसले पर जनभावनाओं को समझें लेकिन पुराने नेता अपनी पर अड़े हैं   सीनियर कोंग्रेसी गुलाम नबी आजाद ने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के वीडिओ पर निशाना साधा और कहा कि  'पैसे देकर आप किसी को भी साथ ले सकते हो   अजीत डोवाल बुधवार को कश्मीर के शोपियां में पहुंचे थे  वायरल वीडियो में डोभाल आम लोगों से मिलते दिखाई दिए थे और सड़क पर उन्होंने लोगों के साथ खाना भी खाया था   इस पर अब कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने सरकार पर हमला किया  सरकार द्वारा जम्मू कश्मीर को दिया जाने वाला विशेष राज्य का दर्जा खत्म करने और राज्य पुनर्गठन विधयेक का कांग्रेस द्वारा विरोध किया गया है   राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोवाल बुधवार को कश्मीर के शोपियां में पहुंचे थे वहां उन्होंने ताजा हालात का जायजा लिया   उन्होंने  जनता और पुलिस कर्मचारियों से भी मुलाकात की  इस वीडिओ पर गुलाम नबी आजाद की टिप्पणी के बाद बीजेपी ने सवाल उठाया है कि क्या कांग्रेस ये मानती है कि कश्मीर के लोग बिकाऊ हैं   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 SUSHMA SWARAJ

सुषमा को बेटी बांसुरी ने दी मुखाग्नि  अंतिम विदाई देने पहुंचे पीएम व अन्य एक प्रखर और मुखर राजनेता का निधन    पूर्व विदेश मंत्री और भारतीय जनता पार्टी की कद्दावर नेता  सड़सठ वर्षीय सुषमा स्वराज का मंगलवार की देर रात दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया   उनके निधन की खबर के बाद पूरे देश में शोक की लहर है   दिल्ली के लोधी रोड़ श्मशान घाट पर उनका अंतिम संस्कार  किया गया   सुषमा स्वराज  के अंतिम संस्कार की रस्मों को उनकी बेटी बांसुरी ने पूरा किया   सुषमा स्वराज भारतीय राजनीति का ध्रुव तारा थीं उनकी कमी सभी को खलती रहेगी    सुषमा स्वराज को अंतिम विदाई देने के लिए लोधी घाट श्मशान घाट पर प्रधानमंत्री मोदी के अलावा गृहमंत्री अमितशाह   रक्षा मंत्री समेत कैबिनेट मंत्री और विपक्षी दलों के सभी नेता मौजूद रहे   इनके बीजेपी के वरिष्ठ नेता अलावा लालकृष्ण आडवाणी भी अंतिम संस्कार में पहुंचे  अंतिम संस्कार से पहले पूर्व विदेश मंत्री को राजकीय सम्मान दिया गया और उनकी पार्थिव देह को तिरंगे में लपेटा गया  इस दौरान उनके पति और बेटी उन्हें अंतिम सलामी देते नजर आए  इससे पहले सुषमा स्वराज की पार्थिव देह भाजपा मुख्यालय में रखी गई  जहां बड़ी संख्या में लोग उनके अंतिम दर्शन के लिए पहुंचे    इससे पहले सुषमा स्वराज की पार्थिव देह 12 बजे तक उनके आवास रही  जहाँ लोगों ने उनके अंतिम दर्शन किये   इससे पहले  सुबह राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सुषमा स्वराज को उनके आवास पर पहुंच कर श्रद्धांजलि अर्पित की  इसके बाद  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी सुषमा स्वराज के आवास पर पहुंचे और श्रद्धांजलि अर्पित की  उनके अलावा उपराष्ट्रपति वैकेंया नायडू, मुलायम सिंह यादव, रामगोपाल यादव, अरविंद केजरीवाल समेत कईं नेतओं ने उन्हें श्रद्धांजलि दी  इनके अलावा पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, सोनिया गांधी, राहुल गांधी भी सुषमा स्वराज के आवास पर श्रद्धांजलि देने पहुंचे   सुषमा स्वराज के निधन की खबर से ही पूरे देश में शोक छा गया  उनके निधन की खबर मिलते ही उनके आवास पर पक्ष और विपक्ष के बड़े नेताओं का तांता लग गया और सभी ने उनके अंतिम दर्शन किए   एमडीएच मसाला कंपनी के मालिक  छियानबे  वर्षीय महाशय धर्मपाल गुलाटी भाजपा मुख्यालय पहुंचे और यहां सुषमा स्वराज को श्रद्धांजलि दी   पूर्व विदेश मंत्री सुषमा को श्रद्धांजलि देते वक्त धर्मपाल गुलाटी खुद की भावनाओं पर काबू नहीं रख सकें और भावुक होकर रोने लगे  सुषमा के जाने का गम उनके आंसुओं में साफ नजर आ रहा था   सुषमा स्वराज के निधन के साथ एक विडंबना यह रही कि कुछ ही घंटों पहले उन्होंने ट्वीट कर मंगलवार को अपने जीवन का सबसे अच्छा दिन बताया था  एक अन्य विडंबना यह भी है कि दिल्ली ने एक माह के भीतर दो पूर्व महिला मुख्यमंत्रियों को गंवा दिया   20 जुलाई को शीला दीक्षित का निधन हो गया था   मंगलवार शाम को केंद्र सरकार को ट्वीट कर अनुच्छेद 370 हटने पर बधाई देने के कुछ ही घंटों बाद उन्हें दिल का दौरा पड़ा  अस्पताल के सूत्रों के मुताबिक उन्हें बेहद नाजुक हालत में एम्स में देर रात सवा दस  बजे भर्ती कराया गया   वहां डॉक्टरों ने उन्हें  कार्डियक पल्मोनरी रेसिस्टेशन  देकर उनकी हालत स्थिर करने की कोशिश की, लेकिन डॉक्टरों को कामयाबी नहीं मिली   करीब 11 बजे उनका निधन हो गया   पिछली लोकसभा में मप्र के विदिशा संसदीय क्षेत्र का प्रतिनिधित्व कर चुकीं सुषमा स्वराज ने अपने स्वास्थ्य कारणों के चलते ही वर्ष 2019 में आम चुनाव नहीं लड़ने का फैसला लिया था   उन्होंने अप्रैल, 2016 में एम्स से ही किडनी ट्रांसप्लांट कराया था   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 RBI REPO RATE

रेपो रेट में की 35 बेसिस पॉइंट की कटौती,    रिजर्व बैंक ने लगातार चौथी बार ब्याद दरों में कटौती की है  इस बार इसमें 35 बेसिस पॉइंट की कटौती हुई है  इसकी बाद आम लोगों को ईएमआई में कुछ राहत मिलेगी     रिजर्व बैंक ने आम आदमी को बड़ा तोहफा दिया है   मौद्रिक नीति की समीक्षा बैठक के बाद केंद्रीय बैंक ने रेपो रेट में 0.35 फीसद की कटौती का ऐलान किया है   गवर्नर शक्तिकांत दास की अध्यक्षता वाली मौद्रिक नीति समिति ने  चालू वित्त वर्ष की तीसरी नीति समीक्षा के लिए बैठक की जिसमें यह फैसला लिया गया   यह लगातार चौथी बार है जब रिजर्व बैंक ने रेपो रेट में कटौती की है  इससे पहले रिजर्व बैंक लगातार तीन बार में रेपो रेट 0.75 प्रतिशत घटा चुका है  रिजर्व बैंक के इस फैसले के बाद रेपो रेट 5.75 से 5.40 के स्तर पर आ जाएगी वहीं रिवर्स रेपो रेट भी 5.15 के स्तर पर आ जाएगी  इसका सीधा असर लोन चुकाने वालों की ईएमआई पर नजर आएगा  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 Article 30

श्रीनगर में सचिवालय पर फहरा तिरंगा झंडा   जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटने की विधिवत मंजूरी मिलने  के बाद  श्रीनगर में सचिवालय पर  तिरंगा झंडा फहराया गया    पिछले दो दिनों की कवायद के बाद आखिरकार आज जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के अलावा राज्य के पुनर्गठन के बिलों को राष्ट्रपति की मंजूरी मिल गई है     बुधवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के प्रोविजन्स के हटने की घोषणा कर दी और इसी के साथ 70 सालों बाद जम्मू-कश्मीर एक केंद्र शासित प्रदेश बन गया  श्रीनगर में सचिवालय पर राज्य के झंडे के साथ बड़ी शान से तिरंगा फहराया गया और बहती हवा में लहराता भी नजर आया   इस एतिहासिक मौके का वीडियो सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हो रहा है   अब तक राज्य का अपना अलग संविधान और झंडा था लेकिन अब राज्य एक केंद्र शासित प्रदेश होगा जिसकी विधायिका भी होगी   राष्ट्रपति ने अनुच्छेद 370 को हटाने वाले संकल्प को राज्यसभा और लोकसभा में मंजूरी मिलने के बाद राज्य को केंद्र शासित प्रदेश बनाने के प्रस्ताव पर हस्ताक्षर किए   एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि, 'भारत के संविधान के अनुच्छेद 370 के क्लॉज 3 के साथ पठित अनुच्छेद 370 के क्लॉज 1 के द्वारा राष्ट्रपति को दिए गए अधिकार के आधार पर राष्ट्रपति संसद की रिकमंडेशन पर यह घोषणा करते हैं कि आज यानि 6 अगस्त 2019 से अनुच्छेद 370 के सभी क्लॉजेस प्रभाव में नहीं रहेंगे    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 CBI RAIDS

सीबीआई ने कई जगह छापेमारी कर सबूत जुटाए     केंद्रीय जांच ब्यूरो के अधिकारियों ने भाजपा से निकाले गए विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के घर सहित कम से कम 17 स्थानों पर छापे मारे हैं  उन्नाव की रेप पीड़िता के सड़क दुर्घटना में घायल होने के बाद मामले की जांच सीबीआई को सौंप दी गई थी   सीबीआई की एक टीम शनिवार को सीतापुर की एक जेल में गई थी, जहां कुलदीप सिंह सेंगर पिछले एक साल से अधिक समय से बंद है  बताया जा रहा है कि टीम ने वहां सेंगर से मिलने आने वाले लोगों के रिकॉर्ड की जांच की   जांच एजेंसी ने एक बयान में कहा कि सीबीआई चार जिलों लखनऊ, उन्नाव, बांदा और फतेहपुर में और आरोपियों के कुछ ठिकानों पर तलाशी कर रही है  मामले की जांच जारी है  उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता लड़की के परिवार ने आरोप लगाया है कि कुलदीप सिंह सेंगर ने दो सप्ताह पहले एक सड़क दुर्घटना को अंजाम दिया था, जिसमें पीड़िता गंभीर रूप से घायल हो गई है और वेंटिलेटर पर जिंदगी और मौत के बीच संघर्ष कर रही है  पीड़िता का वकील भी उस हादसे गंभीर रूप से घायल हो गया   वहीं, पीड़िता की चाची और मौसी की मौके पर ही मौत हो गई थी  उनकी कार को एक ट्रक ने जोरदार टक्कर मारी थी, जिसकी नंबर प्लेट काली ग्रीस लगाई गई थी, ताकि हादसे के बाद भागने पर ट्रक को नहीं पकड़ा जा सके  इस हादसे की अलग से जांच चल रही है  ट्रक चालक और क्लीनर को पुलिस ने पहले ही गिरफ्तार कर लिया था और उनसे भी पूछताछ की जा रही है   ट्रक के मालिक ने दावा किया था कि ईएमआई चूक होने की वजह से वसूली एजेंट्स से बचने के लिए नंबर प्लेटों को काला कर दिया गया था। हालांकि, लोन एजेंट ने स्पष्ट किया कि ट्रक मालिक भुगतान करने के मामले में पीछे नहीं था, जिसके बाद इस मामले पर ताजा विवाद बढ़ गया है   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 JAMMU KASHMIR

बेवजह पैनिक ना फैलाएं राजनीतिक दल   जम्मू-कश्मीर में सरकार द्वारा आतंकी हमले के अलर्ट के बाद अमरनाथ यात्रा पर रोक लगाए जाने को लेकर राजनीतिक दलों ने चिंता जताई   इसके बाद राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कश्मीर के सियासी दलों को सलाह दी है कि वे अफवाहों पर विश्वास न करें और शांति बनाए रखें  बेवजह पैनिक ना फैलाएं    शनिवार देर रात कश्मीर के राजनीतिक दलों के प्रतिनिधिमंडल के साथ मुलाकात के दौरान राज्यपाल ने उन्हें आश्वस्त किया  और उनसे कहा बेवजह पैनिक न फैलाएं   राज्यपाल से मिलने वाले प्रतिनिधमंडल में पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती, शाह फैजल, सज्जाद लोन, इमरान अंसारी शामिल थे  मुलाकात के लिए इन नेताओं ने देर रात राज्यपाल से वक्त मांगा और राज्यपाल ने तुरंत मंजूरी दे दी   मुलाकात में प्रतिनिधिमंडल ने अमरनाथ यात्रियों पर जारी एडवाइजरी का हवाला देते हुए कहा कि इससे कश्मीर के लोगों में असमंजस की स्थिति बनी है  इस दौरान राज्यपाल ने प्रतिनिधिमंडल को आश्वासन दिया कि सुरक्षाबलों को कुछ अहम और पुष्ट सूचनाएं मिली हैं कि आतंकी अमरनाथ यात्रियों पर हमला कर सकते हैं  उन्होंने विश्वास दिलाया है कि सेना और सुरक्षाबल आतंकियों के किसी भी हमले को विफल बनाने में सक्षम हैं और उनके किसी भी नापाक इरादे को सफल नहीं होने देंगे उन्होंने नेताओं से  बेवजह अशांति फैलाने और मुद्दे को उछालने से कोई लाभ नहीं है  सुरक्षा के तहत उठाए गए तमाम मुद्दों का बखेड़ा खड़ा करने का कोई औचित्य नहीं है   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 UAPA BillRS

हम पर दुरुपयोग का आरोप ना लगाए विपक्ष   भारी हंगामे के बीच राज्यसभा में भी गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) संशोधन विधेयक 2019 को पारित कर दिया गया   अब इसे राष्ट्रपति के पास मंजूरी के लिए भेजा जाएगा   इस बिल के पास होने के बाद राष्ट्रीय जांच एजेंसी  को मजबूती मिलेगी   दरअसल, मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस ने इस बिल को स्टैंडिंग कमेटी को भेजने की मांग की थी लेकिन सदन में हुई वोटिंग में बिल के पक्ष में 147 और विपक्ष में 42 वोट पड़े  इससे पहले सदन में बिल पेश करते हुए केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि आतंकवाद एक वैश्विक समस्या है और इसके खिलाफ सदन को एकजुट होना चाहिए   राज्यसभा में  बिल के दुरुपयोग की आशंका को लेकर कांग्रेस नेतओं ने सदन में सवाल उठाए   पी चिदंबरम ने कहा कि संशोधन के कारणों को अगर आप देखते हैं तो पता चलेगा कि यह NIA को सशक्त करने को कहता है   इसको पारित करने में आप कहते हैं, ‘किसी का भी नाम आतंकी लिस्ट में शामिल करने किसी को इस लिस्ट से हटाने के लिए केंद्र को अधिकार मिल जाएगा   इसलिए ही हम इस संशोधन का विरोध कर रहे हैं हम एक्ट का विरोध नहीं कर रहे हैं  वहीं दिग्विजय सिंह ने कहा कि हमने कभी आतंक पर समझौता नहीं किया और इसीलिए इस बिल को लाए  यह तो आप थे जिन्होंने एक बार मसूद अजहर और दूसरी बार रूबईय सईद को जाने दिया   दोनों के आरोपों का जवाब देते अमित शाह ने सदन में समझौता ब्लास्ट और आपातकाल का जिक्र किया  उन्होंने कहा कि इमरजेंसी के दौरान क्या हुआ था? सारा मीडिया बैन हो गया था, सभी विपक्षी नेताओं को जेल में डाल दिया गया था  उन 19 महीनों में देश में कोई लोकतंत्र नहीं था और आप हम पर कानून के दुरुपयोग का आरोप लगा रहे हैं? पहले अपनी अतीत को देख लें   दिग्विजय सिंह के आरोपों का जवाब देते हुए शाह बोले कि दिग्विजय जी गुस्से में नजर आ रहे हैं  यह नेचुरल है क्योंकि वो चुनाव हार गए  उन्होंने NIA के 3 केसेस में कहा था कि किसी को सजा नहीं हुई  मैं आपको बताता हूं क्यों? क्योंकि, पहले राजनीति दुर्भावना के तहत सब किया गया और एक धर्म को आतंक से जोड़ने की कोशिश की गई  शाह आगे बोले कि जब हम विपक्ष में थे तो हमने पिछले यूएपीए संशोधन बिलों का समर्थन किया फिर चाहे वो 2004 हो, 2008 हो या फिर 2013 हो  मैं उम्मीद करता हूं कि आप भी आतंक के खिलाफ ठोस फैसलों का समर्थन करेंगे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 TRUMP KASHMIR

अगर मोदी चाहें तो मध्यस्थता को तैयार   एक तरफ भारत कश्मीर में कुछ बड़ा और नया करना चाहता है वहीँ   कश्मीर के मसले पर एक बार साफ़ साफ़ झूठ बोल चुके अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा कि अगर भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चाहें तो वह कश्मीर मसले पर मध्यस्थता के लिए तैयार हैं  इधर भारत ने साफ़ किया कि कश्मीर मसले पर किसी तीसरे की मध्यस्थता की जरूरत नहीं है   जम्मू-कश्मीर के मसले पर मध्यस्थता की पेशकश करने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक बार फिर अपनी बात को दोहराया है  डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि मध्यस्थता को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को तय करना है  मैंने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से भी बात की है  मुझे लगता है कि दोनों को एक साथ आना चाहिए  अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि अगर उन्हें लगता है कि कश्मीर मसले पर किसी को मध्यस्थता करनी चाहिए, तो वह कुछ कर सकते हैं मैंने इस बारे में पाकिस्तान और भारत दोनों से बात की है  डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि भारत और पाकिस्तान के बीच ये लड़ाई लंबे वक्त से चल रही है  इधर बैंकॉक में विदेश मंत्री एस जयशंकर ने अपने अमेरिकी समकक्ष विदेश सचिव माइक पोंपियो से मुलाकात की  इस मुलाकात में दोनों के बीच द्विपक्षीय बातचीत हुई  इस दौरान एस जयशंकर ने पोंपियो के सामने कश्मीर मुद्दे की बात भी की और इस पर भारत का रुख बताते हुए साफ कहा कि यह भारत और पाकिस्तान के बीच का मुद्दा है   उन्होंने कहा कि हमने  पोंपियो को यह संदेश साफ शब्दों में दे दिया है कि कश्मीर पर कोई भी चर्चा अगर होती है तो वो भारत और पाकिस्तान के बीच ही होगी       

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 KASHMIR

आर्मी, वायुसेना को हाई अलर्ट पर रखा   कश्मीर घाटी में कोई बड़ा एक्शन होने की सम्भावना दिखा रही है  सरकार ने बड़ी संख्या में सुरक्षा बालों की तैनाती के साथ  आर्मी और वायुसेना को हाई ऑपरेशनल अलर्ट पर रख दिया है   माना जा रहा है कश्मीर को देश की मुख्यधारा से जोड़ने और कश्मीरी आतंकियों को सबक सीखने के लिए केंद्र सरकार कोई बड़ा कदम उठा सकती है   विशेष राज्य का दर्जा रखने वाले कश्मीर में कुछ बड़ा हो सकता है इसके संकेत भी मिलने लगे हैं  सरकार के निर्देश पर वायुसेना द्वारा सीआरपीएफ और पैरामिलिट्री फोर्स को कश्मीर घाटी में जल्द पहुंचाने के लिए एयर फोर्स एयरक्राफ्ट के साथ ही C-17 हैवी लिफ्ट प्लेन की सेवाएं भी ले रही है  सरकार ने कश्मीर के वर्तमान हालातों को देखते हुए बड़ा कदम उठाते हुए आर्मी और वायुसेना को हाई ऑपरेशनल अलर्ट पर रख दिया है  कश्मीर में बदलती परस्थितियों के बीच सरकार द्वारा घाटी में अर्द्धसैनिक बलों की 280 कंपनियां तैनात किए जाने की सूचना है  पिछले हफ्ते ही 100 अतिरिक्त कंपनियों को तैनात करने की घोषणा की गई थी  बीती 25 जुलाई को केंद्रीय गृह मंत्रालय ने जम्मू-कश्मीर में केंद्रीय अर्धसैनिक बलों की 100 तिरिक्त टुकड़ियों को भेजने का फैसला किया था  केंद्र के इस फैसले के साथ ही पूरी वादी में धारा 35ए को हटाने को लेकर अटकलों का दौर शुरू हो गया   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 NAKSALI

डेमोक्रेसी दलम का नक्सली मारा गया    आतंकवादियों के समर्थन में अब तक कुछ कश्मीरी पत्थरबाजी करते नजर आते थे  अब नक्सलवाद के समर्थक भी सुरक्षा वालों के खिलाफ पत्थरबाजी करते नजर आए  एक नक्सली की मौत के बाद  भद्राद्री कोठीगुडम  के   जंगल में यह पत्थर बाजी हुई   अब तक आपने कश्मीर मे फोर्स के जवानो पर लोगों को पत्थर बरसाते देखा होगा अब यह नजारा नक्सलियों के विरूध्द की जाने वाली कार्रवाई मे भी दिखने लगा है तेलंगाना में आज सुबह हुई   C R P F और  नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई  इसमें  न्यू डेमोक्रेसी  दलम का एक सदस्य मारा गया   जिसके बाद पुलिस शव को ले जाने आई  तो विरोध में  ग्रमीण C R P F पर पथराव करने लगे  बचाव में C R P F ने भी दो राउंड हवाई फायर किया   जिसके बाद ग्रामीण  जवानों पर टूट पड़े  और जवानों को पत्थरबाजी से बचने के लिए भागना पड़ा  इसमें  दो जवान बुरी तरह घायल हो गए   यह घटना गुंडला जोन में हुई   बाद में पुलिस ने नक्सली के शव को ग्रामीणों से अपने कब्जे में लिया   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 RAPE

सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई से मांगी रिपोर्ट    उन्नाव रेप मामले की  सुप्रीम कोर्ट में  सुनवाई हुई  सर्वोच्च अदालत ने इस मामले से जुड़े सभी केस उत्तर प्रदेश से बाहर ट्रांसफर कर दिए हैं सीबीआई की टीम ने भी तेजी से इस मामले की जाँच का काम आगे बढ़ा दिया है  सीबीआई ने  एक्सीडेंट की जांच भी शुरू कर दी है  चीफ जस्टिस  स्वयं  पीड़िता की मेडिकल रिपोर्ट देखेंगे    उन्नाव मामले में डिप्टी सीएम का बयानउन्नाव मामले पर उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा का कहना है कि सरकार इस मामले में सकारात्मक कदम उठा रही है. पीड़ित पक्ष ने इस मामले में सरकार को जो भी बताया उसपर समय के साथ एक्शन लिया गया है  दिनेश शर्मा ने कहा कि पहले पीड़ित परिवार ने रेप मामले की जांच सीबीआई को सौंपने की मांग की थी, फिर एक्सिडेंट की जांच भी सीबीआई को सौंपने को कहा था, सरकार ने ऐसा ही किया है इधर सॉलिसिटर जनरल ने अदालत को जानकारी दी है कि मामले की जांच कर रहे अफसर लखनऊ में हैं, इसलिए उनका अदालत में पेश होना मुश्किल है इसके बाद सीबीआई अफसर अदालत पहुंचे  सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद तय है कि अब उन्नाव रेप का मामला, एक्सीडेंट का मामला अब उत्तर प्रदेश से बाहर ट्रांसफर कर दिया   इन मामलों की सुनवाई अब दिल्ली में होगी उन्नाव रेप पीड़िता के साथ हुई एक्सीडेंट की घटना पर हर किसी को शक था, यही कारण रहा कि इसकी जांच सीबीआई को सौंपी गई सीबीआई ने अपना काम शुरू कर दिया है मुआयना करने पहुंची टीम का कहना है कि ट्रक रॉन्ग साइड से आ रहा था, जिसकी स्पीड काफी ज्यादा थी. पीड़िता की गाड़ी ने ट्रक की टक्कर से बचने की पूरी कोशिश की लेकिन वो नाकाम रहे  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 PAKISTAN

6 पाक सैनिक और तीन आतंकी किए ढेर   भारतीय सेना ने सीजफायर तोड़ने वाले पकिस्तान को मुंहतोड़ जबाव दिया और  6 पाक सैनिक और तीन आतंकवादियों को ढेर कर दिया   मुठभेड़ में पुलवामा के को-मास्टर माइंड  फैयाज पंजू  भी मारा गया है  ये अनंतनाग में 12 जून को सीआरपीएम के हमले में भी था शामिल जम्मू कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान की भारी गोलाबारी की   कई जगहों पर  मोर्टार से हमला किया. अखनूर और सुंदरबनी में पाकिस्तान फौज ने अंधाधुंध गोले बरसाए   सीजफायर तोड़ने वाले पकिस्तान  को मुंहतोड़ जबाव  भारतीय सेना ने दिया और 6 पाक सैनिक को ढेर कर दिया .पाकिस्तान मंगलवार सुबह से ही सीमा पर संघर्ष विराम का उल्लंघन कर रहा है   पाकिस्तान की फायरिंग बंद नहीं हो रही है  भारतीय सेना ने पाकिस्तान को हर मोर्चे पर करारा जवाब दिया    अखनूर और गुरेज में पाकिस्तानी सेना के छह सैनिकों के मारे जाने की सूचना है   वहीं, घुसपैठ कर रहे तीन आतंकी भी मारे गए हैं    इसके अलावा सीमा पार पाकिस्तान की दो चौकियां तबाह होने के अलावा कई पाकिस्तानी सैनिक घायल बताए जा रहे हैं    दुश्मन के नापाक इरादों को नाकाम बनाते हुए भारतीय सेना के नायक कृष्ण लाल  भी शहीद हो गए  देर रात तक उत्तरी कश्मीर के गुरेज, टंगडार, करनाह और उड़ी में दोनों तरफ से भारी गोलाबारी जारी रही   इसमें दो नागरिक घायल हो गए   पाकिस्तान ने उत्तरी कश्मीर में भारतीय ठिकानों पर तोपखाने का भी इस्तेमाल किया है    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 Cafe Coffee Day

वीजी सिद्धार्थ  दो दिन से थे लापता   Cafe Coffee Day के संस्थापक वीजी सिद्धार्थ का शव बुधवार को नेत्रावती नदी के किनारे मिल गया है  सिद्धार्थ देश की सबसे बड़ी कॉफी चेन के  संस्थापक  और कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री एसएम कृष्णा के दामाद भी थे   वे सोमवार रात से लापता थे  गायब होने से पहले सिद्धार्थ ने कथित तौर पर एक पत्र लिखा था जिसमें उन्होंने कर्जदाताओं का दबाव होने की वजह से ऐसा कदम उठाने की बात कही थी   मंगलुरु पुलिस कमिश्नर संदीप पाटिल ने बताया 'हमें शव आज सुबह मिला है   वीजी सिद्धार्थ के लापता होने के बाद से ही पुलिस प्रशासन द्वारा उन्हें खोजने के लिए युद्ध स्तर पर अभियान चलाया गया  उनके ड्रायवर और मछुआरे के बयान के बाद पुलिस की जांच पूरी तरह से नदी में खोजने पर केंद्रीत  हो गई थी  उन्हें खोजने के लिए NDRF, होमगार्ड, फायर ब्रिगेड सहित अन्य अमला उनकी खोज के लिए पुल के नीचे नेत्रावती नदी के पानी में तलाश रहा था    सिद्धार्थ सोमवार दोपहर को बेंगलुरु से सकलेशपुर के लिए निकले थे, लेकिन अचानक उन्होंने नेत्रावती नदी के पुल पर ड्रायवर से गाड़ी रुकवाई  ड्रायवर को आगे रुककर इंतजार करने का कहा था   इसके बाद वे वापस नहीं लौटे    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 IIT COLLAGE

आवारा मवेशी घूमते रहते हैं IIT  में    अब बात आज के वीडिओ वायरल की   आईआईटी मुंबई के क्लास रूम में लेक्चर के दौरान एक गाय घुस गई  पांच मिनिट तक गाय क्लास रूम में घूमती रही इसे बमुश्किल बाहर निकला जा सका  छात्रों ने इसका वीडिओ वायरल कर आईआईटी के सिस्टम की पोल खोल दी है  देश के सबसे प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग संस्थानों में से एक आईआईटी बॉम्बे इन दिनों गाय की वजह से सुर्खियों में है  यहां लेक्चर के दौरान क्लास में गाय घुस गई  अचानक गाय को क्लास में देखकर स्टूडेंट्स और टीचर अवाक रह गए  किसी तरह सुरक्षाकर्मियों ने गाय को क्लास और फिर कैंपस से बाहर निकाला    करीब 5 मिनट तक गाय क्लास में टहलती रही  इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है  छात्रों ने आरोप लगाया कि कैंपस में आवारा मवेशी घूमते रहते हैं   कई बार शिकायत किए जाने के बाद भी कॉलेज प्रशासन ने कोई इंतजाम नहीं किए   छात्रों ने बताया कि, हालही में दो सांडों ने कैंपस के मेन गेट पर एक छात्र अक्षय पाल पर हमला कर दिया था  इस हमले में छात्र को बैक बोन में चाटें आई थीं   आज भी वो ठीक नहीं हो पाया है   छात्रों का कहना है कि आवारा पशुओं को लेकर पिछले एक महीने में यह तीसरी घटना है, जब स्टूडेंट्स को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है  सोमवार को एक बैल लॉबी में देखा गया  तो गाय क्लासरूम में घुस गई  आईआईटी बॉम्बे के निदेशक ने मुख्य सुरक्षा अधिकारी से कहा है कि वे जानवरों को परिसर में प्रवेश करने से रोकने के लिए तीन गार्ड तैनात रखें  छात्रों का आरोप है कि ऐसा कई बार हो चुका है, लेकिन कॉलेज प्रशासन इस विषय में कोई भी संज्ञान नहीं लेता    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 SANJAY SINGH

कांग्रेस छोड़ बीजेपी में होंगे शामिल गांधी परिवार के करीबी नेता हैं  संजय    कांग्रेस को उस समय बड़ा झटका लगा जब गांधी परिवार के करीबी रहे डॉ. संजय सिंह ने कांग्रेस और राज्यसभा सदस्यता से इस्तीफा दे दिया    संजय सिंह अमेठी के राजपरिवार से आते हैं  इस बार के लोकसभा चुनाव में संजय सिंह सुल्तानपुर संसदीय सीट से चुनावी मैदान में उतरे थे, लेकिन अपनी जमानत भी नहीं बचा सके संजय सिंह अब बीजेपी के साथ हैं  डॉ. संजय सिंह असम से राज्यसभा सदस्य हे  और उनका कार्यकाल अभी एक साल का बचा हुआ हैं  इसके बावजूद उन्होंने राज्यसभा और कांग्रेस छोड़ने का ऐलान किया  संजय गांधी के दोस्त रहे संजय सिंह ने अपनी राजनीतिक पारी का आगाज कांग्रेस से ही किया था, लेकिन राममंदिर आंदोलन के दौरान काग्रेस छोड़ बीजेपी में शामिल हो गए थे  संजय सिंह ने इस्तीफे के बाद कहा, 'मैं कांग्रेस इसलिए छोड़ रहा हूं क्योंकि कांग्रेस नेतृत्व जीरो है  मैं 'सबका साथ सबका विकास' के कारण मोदी का समर्थन करता हूं.  उन्होंने कहा, 'कांग्रेस अभी भी अतीत में है, उसे भविष्य का पता नहीं है आज पूरा देश पीएम मोदी के साथ है और अगर देश उनके साथ है तो मैं भी उनके साथ हूं  संजय सिंह 1998 में अमेठी संसदीय सीट से कांग्रेस के कैप्टन सतीश शर्मा को हराकर सांसद चुने गए थे इसके बाद वो अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में केंद्रीय मंत्री रहे  राहुल गांधी के कांग्रेस में एंट्री करने के बाद उन्होंने बीजेपी छोड़कर कांग्रेस में वापसी की 2009 के लोकसभा चुनाव में संजय सिंह सुल्तानपुर सीट से सांसद चुने गए थे संजय सिंह 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस से नाराज हो गए थे, जिसके बाद पार्टी ने उन्हें असम से राज्यसभा भेजा   इसके चलते सुल्तानपुर सीट से उनकी दूसरी पत्नी अमिता सिंह चुनाव लड़ी थीं, लेकिन वो जीत नहीं सकीं   हालांकि संजय सिंह की पहली पत्नी गरिमा सिंह मौजूदा समय में अमेठी से बीजेपी की विधायक हैं संजय सिंह की पत्नी अमृता सिंह ने भी कांग्रेस छोड़ दी है  अमृता सिंह ऑल इंडिया प्रोफेशनल कांग्रेस (यूपी) की अध्यक्ष थीं  संजय सिंह ने कहा, '1984 से कांग्रेस के साथ रिश्ता है  पिछले 15 साल में कांग्रेस में जो कुछ हुआ, वह पहले कभी नहीं हुआ बहुत कुछ सोचने के बाद मैंने यह निर्णय लिया है            

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 AJAM KHAN

आजम से नाराज बीजेपी सांसदों का हंगामा    समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान ने बीजेपी सांसद रमा देवी पर विवादित टिप्पणी के लिए लोकसभा पटल में माफी मांग ली है सदन की कार्यवाही शुरू होते ही आजम खान ने लोकसभा स्पीकर को संबोधित करते हुए कहा कि अगर उनके बयान से उन्हें तकलीफ पहुंची है तो वे माफी मांगते हैं  इतना बोलने के बाद आजम खान बैठक गए लेकिन बीजेपी के सांसद हंगामा करने लगे बीजेपी के सांसदों ने आजम खान के हाव-भाव पर सवाल उठाए  इस दौरान सपा अध्यक्ष और सांसद अखिलेश यादव ने उन्नाव रेप पीड़िता के हादसे का मामला उठा दिया और कहा कि बीजेपी को उसपर भी ध्यान देना चाहिए  हमेशा उटपटांग बोलने वाले समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान की अक्ल अब ठिकाने पर है   लोकसभा में आजम खान ने अपनी घटिया टिप्पणी के लिए माफ़ी मांगी   इस दौरान  बीजेपी सांसदों ने अखिलेश यादव की टिप्पणी पर आपत्ति जताई इसके बाद स्पीकर ओम बिड़ला ने आजम खान को दोबारा रमा देवी से माफी मांगने के लिए कहा  स्पीकर के निर्देश के बाद आजम खान ने एक बार फिर कहा कि रमा देवी उनकी बहन जैसी हैं, अगर उनके बयान से उन्हें तकलीफ हुई है तो वे माफी मांगते हैं आजम खान की माफी के बाद रमा देवी ने कहा कि उनके व्यवहार से देश को दुख पहुंचा है  रमा देवी ने कहा कि आजम खान की आदत सुधरनी चाहिए उन्होंने कहा कि आजम खान सदन के बाहर भी ऐसा बयान देते रहते हैं इससे पहले समाजवादी पार्टी के सांसद अखिलेश यादव और आजम खान लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला से मिलने उनके दफ्तर पहुंचे थे ओम बिड़ला के कार्यालय में बीजेपी सांसद रमा देवी भी मौजूद थीं  बता दें कि 25 जुलाई को आजम खान ने सदन में रमा देवी पर विवादित टिप्पणी की थी संसदीय कार्यमंत्री ने कहा कि महिला सांसदों के सम्मान को ठेस पहुंची है और उनका अपमान हुआ है, इसलिए आजम खान को ठीक ढंग से माफी मांगनी चाहिए  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 NARENDRA  MODI

2022 का टार्गेट 4 साल में किया पूरा   विश्व बाघ दिवस के मौके पर  देश को बाघों को लेकर बड़ी खुशखबरी मिली है है   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश भर में बाघों को लेकर कराई गई गणना से जुड़ी रिपोर्ट जारी की और इसके अनुसार देश में अब 3000 बाघ हैं   बाघों की जनगणना का काम वर्ष 2018 से ही चल रहा था, जो हाल ही में पूरा हुआ है   विश्व बाघ दिवस पर रिपोर्ट जारी करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज हम अपने बाघों को सुरक्षित रखने की प्रतिबद्धता को दोहराते हैं  बाघ गणना के आंकड़े हर भारतीय को खुश करने के लिए काफी हैं  प्रधानमंत्री  ने  कहा कि 9 साल पहले सेंट पीटसबर्ग में तय किया गया था कि 2022 तक बाघों की संख्या दोगुनी की जाएगी लेकिन हमने यह टार्गेट 4 साल में ही पूरा कर दिया है     

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 SOURAV

सीधी का सौरभ प्रयागराज में गिरफ्तार    उत्तर प्रदेश एटीएस ने प्रयागराज से सौरभ शुक्ला नाम के युवक को पाकिस्तानी आतंकियों की मदद करने के मामले में गिरफ्तार किया है  सौरभ मध्यप्रदेश के सीधी जिले का रहने वाला है और  प्रयागराज में रहकर बीए की पढ़ाई कर रहा था  सौरभ ने आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा की मदद करते हुए उसके लिए अलग-अलग अकाउंट में पैसा जमा करवाया था   उत्तर प्रदेश एटीएस को खबर मिली थी कि एक सौरभ शुक्ला नाम का लड़का आतंकी संगठनों को पैसे पहुंचाता है  मामले की तफ्तीश की गई तो पता चला प्रयागराज में बीए की पढाई कर रहा सौरभ आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा की मदद करता है   वः मध्यप्रदेश सीधी का रहने वाला है  इस बीच सौरभ शुक्ला गायब हो गया   पुलिस ने उस पर 25 हजार का इनाम रखा   सौरभ  के पिता टीचर हैं और पूरा परिवार सीधी में ही रहता है  पुलिस के अनुसार युवक लगातार फोन और इंटरनेट के जरिए पाकिस्तान में बैठे अपने हैंडलर्स के संपर्क में रहता था  इनसे अलग-अलग बैंक खातों में पैसे मंगवाकर आतंकियों तक इसे सप्लाई करता था  प्रयागराज से सौरभ को पकड़ा गया है    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 PDP CHIEF MEHBOOBA MUFTI

महबूबा बोलीं-बारूद को हाथ लगाने जैसा    कश्मीर में इस समय पकिस्तान परस्त नेताओं की हालत पतली है  इस बीच पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने कहा कि 35ए के साथ छेड़छाड़ करना बारूद को हाथ लगाने के बराबर होगा उन्होंने कहा, जो हाथ 35ए के साथ छेड़छाड़ करने के लिए उठेंगे, वो हाथ ही नहीं वो सारा जिस्म जल के राख हो जाएगा महबूबा इस समय कश्मीर में अपना अस्तित्व बनाए रखने के लिए संघर्ष कर रही हैं    जम्मू-कश्मीर की पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टीअपना 20वां स्थापना दिवस मना रही है  इस मौके पर पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने कहा कि हम अपनी आखिरी सांस तक कश्मीर की रक्षा करेंगे पीडीपी कभी समाप्त नहीं होगी महबूबा मुफ्ती ने कहा कि कश्मीर के लिए शहीद हुए लोगों को याद करने की जरूरत है...  हमें एक बड़ी लड़ाई के लिए तैयार रहने की जरूरत है चुनाव आते हैं और चले जाते हैं लेकिन असली लड़ाई जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे के लिए लड़ना है  हम राज्य की स्थिति को बचाने के लिए किसी भी हद तक जाएंगे  महबूबा मुफ्ती ने कहा, 'हमने  केंद्र सरकार से कहा कि दिनेश्वर शर्मा को मध्यस्थ बनाया जाए हमने रमजान में संघर्ष विराम सुनिश्चित कराया   ऐसा पहले कभी नहीं हुआ हमें अच्छे रिजल्ट की उम्मीद थी लेकिन दूसरे पक्ष से ऐसा कुछ नहीं हुआ मुफ्ती ने कहा कि 'अपने पास जो है उसे कश्मीरियों को रक्षा करनी चाहिए हमारे पास संविधान है, हमारे पास ऐसा दर्जा है जिससे बाहरी लोग यहां प्रॉपर्टी नहीं खरीद सकते आज हालत ऐसी है कि घाटी में डर का माहौल है, जम्मू कश्मीर बैंक को समाप्त कर दिया गया             

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 NARENDRA SINGH MODI

मोदी के मन की बात में कश्मीर की चर्चा    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को मन की बात कार्यक्रम के जरिए देश की जनता को संबोधित करते हुए कहा सावन का महीना ऊर्जा से भर देता है  मोदी ने कहा जो लोग कश्मीर के विकास की राह में नफरत फैलाना चाहते हैं, अवरोध पैदा करना चाहते हैं, वो कभी अपने नापाक इरादों में कामयाब नहीं हो सकते     दूसरी बार प्रधानमंत्री के रूप में शपथ लेने के बाद यह  प्रधनमंत्री मोदी का दूसरा रेडियो संबोधन था  मोदी ने कहा कि पिछले कार्यक्रम में मैंने लोगों से पुस्तकों के बारे जानकारी साझा करने की अपील की थी, लोगों ने अलग-अलग क्षेत्रों के किताबों के बारे में जानकारी नमो ऐप के जरिए साझा की है   उन्होंने कहा कि क्यों न हम नरेंद्र मोदी ऐप पर एक स्थाई बुक कॉर्नर बना दें और जब भी नई किताब पढ़ें, उसके बारे में वहां लिखे और चर्चा करें  आप इसके लिए कोई अच्छा सा नाम भी सुझा सकते हैं  मोदी ने बताया कि जम्मू-कश्मीर में 'बैक टु विलेज' कार्यक्रम के तहत पहली बार बड़े-बड़े अधिकारी सीधे गांवों तक पहुंचे और लोगों से बात की  राज्य की सभी पंचायतों में गांववालों को अधिकारियों ने सरकारी योजनाओं को जानकारी दी  अधिकारियों ने 2 दिन और 1 रात गांव में बिताई  ये साफ है कि जो लोग विकास की राह में नफरत फैलाना चाहते हैं, अवरोध पैदा करना चाहते हैं, वो कभी अपने नापाक इरादों में कामयाब नहीं हो सकते    मोदी ने कहा कि जल संरक्षण आपके दिल को छूने वाला विषय था  मैं अनुभव कर रहा हूं कि पानी के विषय ने इन दिनों हिन्दुस्तान के दिलों को झकझोर दिया है  सरकार, एनजीओ सब जलसंरक्षण के लिए युद्ध स्तर पर कुछ-न-कुछ जरूर कर रहे हैं  सामूहिकता का सामर्थ्य देखकर मन को बहुत अच्छा लग रहा है, बहुत संतोष हो रहा है   इसका शानदार उदाहरण है झारखंड का आरा केरम गांव  मेघालय देश का पहला ऐसा राज्य बन गया है, जिसने अपनी जल-नीति तैयार की है, राज्य सरकार को बधाई   हरियाणा में उन फसलों की खेती को बढ़ावा दिया जा रहा है, जिनमें कम पानी की जरूरत होती है और किसान का भी कोई नुकसान नहीं होता है   उन्होंने कहा चंद्रयान 2 मिशन ने एक बार फिर यह साबित किया कि जब बात नए-नए क्षेत्र में कुछ नया कर गुजरने की हो तो हमारे वैज्ञानिक सर्वश्रेष्ठ हैं, विश्व-स्तरीय हैं  पीएम मोदी ने छात्रों से ‘मन की बात’ के माध्यम से एक बहुत ही दिलचस्प प्रतियोगिता के बारे में जानकारी साझा की और युवक-युवतियों को इसमें शामिल होने के लिए आमंत्रित किया   पीएम मोदी ने कहा कि छात्रों को एक क्विज में हिस्सा लेना होगा, सबसे ज्यादा अंक प्राप्त करने होंगे  इनाम के रूप में सर्वाधिक स्कोर करने वाले बच्चों को 7 सितंबर को श्रीहरिकोटा में चंद्रयान 2 की लैडिंग के क्षण का साक्षी बनने का मौका मिलेगा, जिसका खर्च भारत सरकार उठाएगी  एक अगस्त को mygov.in पर इस क्विज का शुभारंभ होगा   उन्होंने कहा कि मैं स्कूलों से, अभिभावकों से, उत्साही आचार्यों और शिक्षकों से, विशेष आग्रह करता हूं कि वे अपने स्कूल को विजयी बनाने के लिए भरसक मेहनत करें    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 AGUSTAWESTLAND CASE

बाथरूम के बहाने हुआ था फरार   3600 करोड़ रुपए के इस सौदे के तहत वायुसेना के लिए 12 हेलीकॉप्टर खरीदे जाने थे और इसमें रतुल पुरी का नाम सामने आया। अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर मामले में नया मोड़ आया है और दिल्ली कोर्ट ने आरोपी और मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी की गिरफ्तारी पर अंतरिम रोक लगा दी है  कोर्ट ने पुरी को ईडी के अधिकारियों को जांच में पूरा सहयोग करने के निर्देश दिए   इससे पहले बड़ा घटनाक्रम तब हुआ था जब पूछताछ के लिए पहुंचे रतलु पुरी चकमा देकर ईडी ऑफिस से अचानक गायब हो गया था  बताया जा रहा है कि रतुल को ईडी ऑफिस पहुंचने पर बैठने के लिए कहा गया था, लेकिन वे बाथरूम जाने का बहाना बनाकर ऑफिस से चला गया था     रतुल पुरी ने दिल्ली कोर्ट में अग्रिम जमानत के लिए याचिका दाखिल की है   ईडी ने रतुल पुरी को पूछताछ के लिए ऑफिस तलब किया था, लेकिन वो बाथरूम जाने का बहाना बनाकर भाग निकला   उसे डर था कि ईडी के अधिकारी उसे गिरफ्तार कर सकते हैं  बाद में दिल्ली कोर्ट ने उसकी गिरफ्तारी पर अंतरिम रोक लगाते हुए उसे राहत दी  लेकिन उसे ये निर्देश दिए कि वो ईडी अधिकारियों को पूछताछ और जांच में पूरा सहयोग करेगा    ईडी से जुड़े सूत्रों के मुताबिक रतुल पुरी अगस्ता वेस्टलैंड केस में पूछताछ में सहयोग नहीं कर रहा था   रतुल पुरी हिंदुस्तान पावरप्रोजेक्ट्स प्राइवेट लिमिटेड के अध्यक्ष है और वो 3600 करोड़ रुपए के अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर घोटाले का आरोपी है   इस घोटाले से जुड़े धन शोधन मामले में सरकारी गवाह बने बिचौलिए और दुबई के कारोबारी राजीव सक्सेना द्वारा दिए गए बयान में रतुल पुरी का नाम सामने आया था और  उसके बाद ईडी ने उसे समन भेजा था    इस घोटाले के बारे में बता दें कि फरवरी 2010 में यूपीए सरकार ने ब्रिटिश-इटैलियन कंपनी अगस्ता वेस्टलैंड के साथ वीवीआईपी हेलीकॉप्टर की खरीद के लिए एक सौदा किया था  3600 करोड़ रुपए के इस सौदे के तहत वायुसेना के लिए 12 हेलीकॉप्टर खरीदे जाने थे   इस डील में बिचौलिए की भूमिका निभाने वाले मिशेल को पिछले साल दिसंबर में यूएई से प्रत्यर्पित कर भारत लाया गया  दुबई के कारोबारी राजीव सक्सेना भी पकड़ा गया, लेकिन वो सरकारी गवाह बना और उससे पूछताछ में कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी का नाम लिया   रतुल पुरी पर आरोप है कि वीआईपी अगस्ता हेलिकॉप्टर केस में उसकी कंपनियों में दुबई से पैसा ट्रांसफर किया गया था   ईडी जांच कर रही है कि आखिर रतुल की कंपनी में किसके इशारे पर पैसा आया    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 POLICE PRACTICES

 अब बात आज के वीडियों वॉयरल की  आपने  एक , दो  , एक , दो , पर पुलिस के जवानो को कदम ताल करते कई बार देखा होगा   मगर हमारे सिनेमा जगत के    सत्तर के दशक के   चर्चित गीत  पर   पुलिस को कदम ताल करते आप पहली बार देखेंगे   ढल गया दिन , हो गई शाम , जाना हैं मुझे जाने दो  आगे जाके क्या करोगा पीछे मुड  जी हाँ गाने में थोड़ा बदलाव हैं  और यह बदलाव नागालैंड पुलिस ने किया हैं  पुलिस की नौकरी में तनाव किस कदर होता हैं  इसका अंदाजा भी लगाना मुश्किल हैं   ऐसे में नागालैंड पुलिस के इस प्रयोग का यह विडिओ जमकर वायरल हो रहा हैं  आप भी देखिये   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 Mumbai Rains

पानी में फांसी महालक्ष्मी एक्सप्रेस    देश की आर्थिक राजधानी मुंबई पानी-पानी हो गई है  आफत की बारिश ने लोगों का जीना मुश्किल कर दिया है  बीती 24 घंटों में हुई भारी बारिश के चलते मुंबई की रफ्तार थम गई है  मौसम विभाग के मुताबिक अगले 24 घंटों में भी लोगों को बारिश से राहत नहीं मिलेगी  भारी बारिश के चलते महालक्ष्मी एक्सप्रेस को रास्ते में रोका गया  इस ट्रेन से सात सौ लोगों को रेस्क्यू कर बचाया गया   मुंबई और महाराष्ट्र में  अगले 24 घंटों में एक बार फिर भारी बारिश होने की आशंका जताई गई है। बारिश के चलते सड़क, रेल और हवाई मार्ग जमकर प्रभावित हुआ है  भारी बारिश के चलते मुंबई की हालत बेहद खराब हो गई  रेलवे ट्रैक पर पानी भर गया है, इस वजह से कई रुट पर लोकल ट्रेन का संचालन प्रभावित हुआ है  सड़के जलमग्न हो गई हैं  भारी बारिश के चलते महालक्ष्मी एक्सप्रेस को रास्ते में रोकना पड़ा   इस दौरान लगभग 700 यात्री ट्रेन में फंस गए थे  ट्रेन को चरों और से पानी ने घेर लिया था और पानी ट्रेन के भीतर तक पहुँच रहा था  लगभग 9 घंटे बाद यात्रियों को सुरक्षित निकालने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया गया था  लगभग सभी यात्रियों को ट्रेन से निकालकर सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया  इधर चेंबुर सहित अन्य इलाके जलमग्न हो गए   सिओन और गांधीनगर मार्केट के इलाकों में भी खूब पानी भर गया    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 KARGIL VIJAY DIWAS

राष्ट्रपति ने श्रीनगर में दी श्रद्धांजलि   कारगिल में पाकिस्तान की गलती को 20 साल पूरे हो चुके हैं और पूरा देश आज अपने शहीदों को नमन कर रहा है  जहां प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर शहीदों को श्रद्धांजलि दी है और कारगिल में जवानों के साथ बिताए वक्त को याद किया है  वहीं शहीदों को राष्ट्रपति और सशस्त्र सेनाओं के प्रमुख रामनाथ कोविंद ने कारगिल विजय दिवस पर शहीदों को श्रद्धासुमन अर्पित की   कारगिल विजय दिवस पर द्रास वार मेमोरियल में होने वाले कार्यक्रम में शामिल होने का राष्ट्रपति का कार्यक्रम खराब मौसम की वजह से रद्द हो गया था और इसके बाद राष्ट्रपति श्रीनगर के बादामीबाग कंटोनमेंट में हो रहे कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे और शहीदों को श्रद्धांजलि दी  थलसेना अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत, वायुसेना प्रमुख एयर मार्शल बीएस धनोआ और नौसेना प्रमुख एडमिरल कर्मवीर सिंह ने भी द्रास में शहीदों को श्रद्धांजलि दी  इससे पहले रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने नेशनल वॉर मेमोरियल पहुंचकर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की   वहीं कारगिल दिवस के मौके पर कारगिल में शहीद हुए परमवीर चक्र से सम्मानित मेजर विक्रम बत्रा के पिता ने कहा कि सरकार कठोर कदम उठा रही है क्योंकि पाक अब भी घुसपैठ का समर्थन कर रहा है  मैने सरकार का खत लिखा है कि दिल्ली में सड़कों के नाम शहीदों के नाम पर होने चाहिए   वहीं शहीद कैप्टन सौरभ कालिया के पिता एनके कालिया ने कहा कि जिस तरह भारत ने उरी और पुलवामा हमले के अलावा कैप्टन अभिनंदन को पकड़े जाने के बाद जो कठोर कदम उठाए इस तरह की कार्रवाई अगर 1999 में की गई होती तो हमारे जवानों के साथ पाक बुरा बर्ताव नहीं कर पाता  कारगिल विजय दिवस पर  जहां पूरे देश में आयोजन हो रहे हैं वहीं सोशल मीडिया में भी शहीदों को नमन किया जा रहा है  लोग एक के बाद एक ट्वीट करते हुए भारतीय सेना के शौर्य को याद करते हुए युद्ध में शहीद हुआ जवानों को सलाम कर रहे हैं   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 MS DHONI

आर्मी की पैरा बटालियन के साथ ड्यूटी करेंगे   क्रिकेटर महेंद्रसिंह धोनी ने आगामी वेस्टइंडीज दौरे से क्रिकेट में ब्रेक लिया है और वे अब सेना में अपनी रेजीमेंट की सेवा करेंगे  लेफ्टिनेंट कर्नल एम एस  धोनी 31 जुलाई से रेजीमेंट में ड्यूटी करेंगे क्रिकेटर एम एस धोनी टेरिटोरियल आर्मी की पैरा बटालियन में 31 जुलाई से 15 अगस्त तक तैनात रहेंगे  यह यूनिट कश्मीर में विक्टर फोर्स के तहत मौजूद है  धोनी इस पूरी समयावधि में ट्रूप्स के साथ रहेंगे और वे पेट्रोलिंग, गार्ड और पोस्ट ड्यूटी करेंगे  मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार धोनी ने पैरा रेजीमेंट के बेंगलुरु स्थित हेडक्वार्टर में ड्यूटी ज्वाइन की और वे अब कश्मीर में पोस्ट ड्यूटी संभालेंगे  धोनी ने 3 अगस्त से वेस्टइंडीज के खिलाफ होने वाले वेस्टइंडीज दौरे से ब्रेक लिया था  आर्मी प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने धोनी को ट्रेनिंग के लिए हरी झंडी दे दी थी  धोनी की ट्रेनिंग जम्मू-कश्मीर में होगी  वैसे उन्हें किसी ऑपरेशन का हिस्सा नहीं बनाया जाएगा  पिछले दिनों मीडिया में यह खबर आई थी कि धोनी सियाचिन बॉर्डर पर जाना चाहते हैं  चूंकि अब वे जम्मू कश्मीर में ट्रेनिंग लेंगे इसलिए हो सकता है कि उन्हें सियाचिन बॉर्डर पर जाने को मिल सकता है   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 PRADHAN MANTRI NARENDRA MODI

प्रधानमंत्री से मिलने आया उनका छोटा दोस्त    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की एक छोटे बच्चे को दुलारते कुछ तस्वीरें वायरल हुई हैं  इन तस्वीरों में मोदी बच्चे के साथ काफी खुश नजर आ रहे हैं   इन तस्वीरों को इंस्टाग्राम पर भी शेयर किया गया है    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ नजर आ रहा बच्चा  उज्जैन के राज्यसभ सांसद सत्यनारायण जटिया का पाेता है   प्रधानमंत्री के साथ एक छोटे बच्चे की तस्वीरें खूब वायरल हो रही हैं   बच्चा भी प्रधानमंत्री के साथ पूरी मस्ती में है   यह बच्चा बीजेपी नेता राज्यसभा सांसद सत्यनारायण जटिया का है  सांसद जटिया के पुत्र राजकुमार और उनकी पत्नी दिल्ली में प्रधानमंत्री से मिलने पहुंचे थे  इसी दौरान जटिया के पोते को प्रधानमंत्री से भरपूर स्नेह मिला   सांसद जटिया ने कहा कि ये पल बहुत ही आत्मीय रहे  प्रधानमंत्री ने बच्चे को दुलारते हुए हल्के फुल्के अंदाज में कहा कि बड़े होकर सांसद बनना और अपने दादा की तरह दिल्ली आना   ने इंस्टाग्राम पर फोटो के साथ लिखा कि आज संसद में एक बेहद खास दोस्त उनसे मुलाकात करने के लिए आया    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 AMERIKI RASHTRAPATI DONALD TRUMP

डैमेज कंट्रोल में जुटी अमेरिकी सरकार   अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा कश्मीर मुद्दे पर मध्यस्थता को लेकर दिए गए बयान के बाद दोनों देशों में बवाल मच गया है   जहां एक तरफ भारत में विपक्षी दल सरकार से सवाल पूछ रहे हैं वहीं ट्रंप के बयान के बाद अमेरिका में भी विपक्षी दलों ने इसे गलत करार दिया है साथ ही ट्रंप प्रशासन अब डैमेज कंट्रोल में जुट गया है  अमेरिका के एक अखबार ने तथ्यात्मक ब्यौरा देकर कहा है कि डोनाल्ड ट्रम्प रोज सत्रह झूठ बोलते हैं   ट्रंप ने पाक पीएम इमरान खान से मुलाकात के दौरान कहा था कि पीएम मोदी ने कश्मीर मुद्दे पर उनसे मध्यस्थता की अपील की है   इसके बाद तो जैसे भारत में राजनीतिक बवाल मच गया है  विपक्षी दल संसद के दोनों सदनों में हंगामा कर रहे हैं   हालांकि, भारत के विदेश मंत्री ने संसद में साफ कर दिया है कि पीएम मोदी ने ऐसी कोई अपील नहीं की  वहीं दूसरी तरफ ट्रंप प्रशासन ने बयान जारी कर राष्ट्रपति की बयानबाजी से मचे बवाल को समेटने की कोशिश की है  अमेरिका के स्टेट डिपार्टमेंट के प्रवक्ता ने इस मामले में बयान जारी करते हुए कहा, 'कश्मीर मुद्द भारत और पाक के बीच का द्विपक्षीय मुद्दा है और अमेरिका इस मुद्दे पर बैठकर बात करने का स्वागत करता है साथ ही इसमें सहयोग के लिए तैयार है  प्रवक्ता ने आगे कहा कि, 'हम मानते हैं कि भारत और पाक के बीच किसी भी सफल बातचीत का आधार इस बात पर निर्भर है कि पाकिस्तान आतंकवाद और इसके ठिकानों पर कठोर और अपरिवर्तिनीय कार्रवाई करे   ...  यह एक्शन पाक पीएम  द्वारा बयानों में किए कए वादों के आधार पर हो   हम बातचीत के लिए सही माहौल बनाने के लिए दोनों के बीच तनाव कम करने के लिए कदम उठाते रहेंगे  इस मामले में राष्ट्रपति का इशारा था कि हम सहयोग के लिए तैयार हैं  भले ही ट्रंप के बयान का बचाव शुरू हो गया हो लेकिन अमेरिका में डेमोक्रेटिक पार्टी के सांसद ब्रैड शेरमैन ने ट्रंप पर हमला बोला है   शेनमैन ने कहा है कि भारतीय प्रधानमंत्री मोदी, राष्ट्रपति ट्रंप से ऐसी बात कभी नहीं करेंगे   हर वो शख्स जो दक्षिण एशिया की विदेश नीति के बारे में थोड़ा भी जानता है उसे यह पता है कि भारत कश्मीर मसले पर तीसरे पक्ष की मध्यस्थता का विरोध करता रहा है   ट्रंप का बयान गैर जिम्मेदाराना और भ्रामक है  एक अमेरिकी अखबार ने तो ट्रम्प के बायान  को हवा में उड़ाते हुए लिखा है कि ट्रम्प दिन में रोज 17 बार झूठ बोलते हैं                      

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 Chandrayaan

चाँद की ऐतिहासिक यात्रा शुरू  मोदी ने दी वैज्ञानिकों को बधाई  बाहुबली ले उड़ा चंद्रयान    भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन  का दूसरा मून मिशन चंद्रयान टू  सफलतापूर्वक लॉन्च हो गया है चंद्रयान-2 को  देश के सबसे ताकतवर बाहुबली रॉकेट G S L V- MK 3 से लॉन्च किया गया अब चांद के दक्षिणी ध्रुव तक पहुंचने के लिए चंद्रयान-2 की 48 दिन की यात्रा शुरू हो गई है चंद्रयान-2 ने पृथ्वी से करीब 182 किमी की ऊंचाई पर जीएसएलवी-एमके3 रॉकेट से अलग होकर पृथ्वी की कक्षा में चक्कर लगाना शुरू किया  चंद्रयान टू की सफल लॉन्चिंग से भारत की वैज्ञानिक दक्षता एक बार फिर दुनिया के सामने साबित हुई है  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित तमाम लोगों ने इस कार्य के लिए इसरो को बधाई दी  इसरो ने कहा कि अब चाँद की ऐतिहासिक यात्रा शुरू हुई है  चंद्रयान मिशन टू से भारत को वैज्ञानिक क्षमता दिखाने का मौका मिला  इसरो का छोटा सा कदम, भारत की छवि बनाने  के लिए एक लंबी छलांग हैं  इस मिशन में भारत ने कठिन जगह का चुनाव किया  चांद पर जाने के लिए वह जगह  चुनी, जहां अभी तक कोई देश नहीं पहुंचा है  चंद्रयान-2 अंतरिक्ष यान 22 जुलाई से लेकर 13 अगस्त तक पृथ्वी के चारों तरफ चक्कर लगाएगा इसके बाद 13 अगस्त से 19 अगस्त तक चांद की तरफ जाने वाली लंबी कक्षा में यात्रा करेगा इसके बाद 13 दिन यानी 31 अगस्त तक वह चांद के चारों तरफ चक्कर लगाएगा फिर 1 सितंबर को विक्रम लैंडर    ऑर्बिटर से अलग हो जाएगा और चांद के दक्षिणी ध्रुव की तरफ यात्रा शुरू करेगा 5 दिन की यात्रा के बाद 6 सितंबर को विक्रम लैंडर चांद के दक्षिणी ध्रुव पर लैंड करेगा  लैंडिंग के करीब 4 घंटे बाद रोवर प्रज्ञान लैंडर से निकलकर चांद की सतह पर विभिन्न प्रयोग करने के लिए उतरेगा चंद्रयान की लॉन्चिंग को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी अपने ऑफिस में लाइव देखा  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी  इसरो  को चंद्रयान-2 की सफल लॉन्चिंग पर बधाई दी ट्वीट करते हुए प्रधानमंत्री ने  लिखा कि चंद्रयान 2 की सफल लॉन्चिंग पर पूरे देश को गर्व है प्रधानमंत्री ने ट्वीट करते हुए अपनी दो तस्वीरें भी साझा की, जिसमें चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग को लाइव टीवी पर देख रहे हैं उन्होंने लिखा कि ये पल 130 करोड़ लोगों के लिए गर्व करने वाला है. चंद्रयान-2 की सफल लॉन्चिंग भारत के महान वैज्ञानिकों की सफल गाथा को बताती है अगर 15 जुलाई को चंद्रयान-2 सफलतापूर्वक लॉन्च होता तो वह 6 सितंबर को चांद के दक्षिणी ध्रुव पर लैंड करता  लेकिन आज की लॉन्चिंग के बाद चंद्रयान-2 को चांद पर पहुंचने में 48 दिन ही लगेंगे  यानी चंद्रयान-2 चांद पर 6 सितंबर को ही पहुंचेगा इसरो वैज्ञानिक इसके लिए चंद्रयान-2 को पृथ्वी के चारों तरफ लगने वाले चक्कर में कटौती की है   चंद्रयान-2 आज यानी 22 जुलाई को लॉन्च होने के बाद अब चांद की ओर ज्यादा तेजी से जाएगा  धरती से चांद की दूरी लगभग 3 लाख 84 हजार किलोमीटर है और उससे पहले इसरो ऐसा कुछ करेगा जो सबकी सांसें रोक देने वाला होगा  इसरो चीफ के सीवान के अनुसार इसरो चांद से 30 किमी पहले ही चंद्रयान-2 की स्पीड को कम करेगा    चांद की सतह पर उतरना आसान नहीं है और इस पूरे काम में 15 मिनट लगेंगे जो बेहद महत्वपूर्ण होंगे   साथ ही इसरो चांद पर सॉफ्ट लैंडिंग करने वाला है  अगर सबकुछ ठीक रहा तो ऐसा भारत करने वाला दुनिया का चौथा देश बन जाएगा    फिलहाल अमेरिका, रूस और चीन को ही यह महारत हासिल है  चंद्रयान-2 के लॉन्च होने के बाद इसके साथ जा रहे लैंडर-विक्रम और रोवर-प्रज्ञान चंद्रमा की सतह तक जाएंगे   लैंडिंग से लगभग 4 दिन पहले रोवर उस जगह का मुआयना करेगा जिसके बाद  लैंडर यान से अलग होकर आगे बढ़ेगा   इसके बाद लैंडर का दरवाजा खुलेगा और रोवर बाहर आएगा जो चांद की सतह पर आगे बढ़ेगा  इसके कुछ मिनटों बाद ही तस्वीरें मिलना शुरू होंगी  चंद्रमा की सतह की तमाम जानकारियां जुटाकर इसरो के अंतरिक्ष केंद्र भेजने का मुख्य काम प्रज्ञान का होगा                         

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 sheela dixit

काफी दिनों से चल रही थी बीमार     दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री और गांधी परिवार की सबसे करीबी   कॉंग्रेस नेत्री शीला दीक्षित का निधन हो गया  शीला दीक्षित 81 वर्ष की थी   बीते काफी दिनों से बीमार चल रही थीं   आज सुबह ही दिल्ली के एस्कॉर्ट हॉस्पिटल में उन्हें उलटी की शिकायत के बाद भर्ती करवाया गया था   शीला दीक्षित दिल्ली कांग्रेस की अध्यक्ष थीं   उन्होंने हाल ही के लोकसभा चुनाव 2019 में उत्तर-पूर्वी दिल्ली से मनोज तिवारी के खिलाफ चुनाव भी लड़ा था  शीला दीक्षित  तीन बार दिल्ली की मुख्यमंत्री रही हैं  शीला दीक्षित के निधन पर देश के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी व राहुल गाँधी सहित कई हस्तियों ने टवीट कर श्रद्धांजलि अर्पित की  साथ ही कांग्रेस को बड़ी क्षति बताया    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 AMIT SHAH

राज्य सभा में अमित शाह  का बड़ा बयान    देश में अवैध रुप से रहने वाले घुसपैठियों का मुद्दा एक बार फिर आज राज्य सभा में उठा तो  गृहमंत्री अमित शाह ने अपने भाषण के दौरान  घुसपैठियों को खुली चेतावनी दी  और कहा  कि सभी घुसपैठियों को देश से बेदखल किया जाएगा  घुसपैठियों के मसले पर केंद्र सरकार किसी से भी किसी किस्म के समझौते के मूड में नहीं है  राज्यसभा में आज सरकार ने अपने मनसूबे जाहिर कर दिए हैं   गृहमंत्री अमित शाह ने अपने भाषण के दौरान कहा कि 'हम अवैध तौर पर रहने वाले सभी लोगों और घुसपैठियों की पहचान कर उन्हें अंतर्राष्ट्रीय कानून के तहत देश के हर इंच से बेदखल करेंगे  इसके पूर्व लोकसभा में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भारत चीन सीमा रेखा को लेकर कहा कि दोनों देश शांति स्थापित करने के लिए प्रतिबद्ध हैं   उन्होंने कहा कि भारत चीन सीमा पर बेहतर इन्फ्रास्ट्रक्चर के लिए सड़कें, सुरंगें, रेलवे लाइन तैयार की जा रही हैं                      

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 HAFIZ SAEED

काउंटर टेरेरिज्म विभाग ने की कार्रवाई   लाहौर से गुंजरवाला जाते समय आतंकी संगठन जमात उद दावा के सरगाना हाफिज सईद को गिरफ्तार किया गया   बताया जा रहा है कि काउंटर टेरेरिज्म विभाग ने उसकी गिरफ्तारी की है   मुंबई हमले के मास्टर माइंड हाफिज सईद को 2009 में हुए एक टेरर फंडिंग के मामले में गिरफ्तार किया गया है   कहा यह भी जा रहा है कि ये दिखावे के लिए पकिस्तान का एक ड्रामा भी हो सकता है   इस्लामाबाद से खबर है  कि हाफिज को फिलहाल न्यायिक हिरासत में भेजा गया है  ये गिरफ्तारी पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान की 22 जुलाई को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से होने वाली मुलाकात से पहले की गई है  हालांकि, पाकिस्तान की इस कार्रवाई पर बहुत ज्यादा भरोसा नहीं किया जा सकता है क्योंकि इससे पहले भी वह ऐसे नाटक कर चुका है  माना जा रहा है कि पाकिस्तान ने फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स  से ब्लैक लिस्ट होने से बचने के डर से यह कार्रवाई की हो, क्योंकि आर्थिक तंगी झेल रहा पाकिस्तान अब किसी नए प्रतिबंध के लगने पर बिखर सकता है  आतंकी संगठन जेयूडी का सरगना हाफिज सईद मुंबई में हुए 26/11 हमले के अलावा पुलवामा और उरी हमले की साजिश को अंजाम दे चुका है  अमेरिका ने सईद को वैश्विक आतंकी घोषित कर रखा है और उस पर 10 मिलियन डॉलर का इनाम भी रखा गया है  इससे पहले आतंकवाद निरोधी अदालत ने सोमवार को मुंबई आतंकवादी हमलों के मास्टरमाइंड और जमात-उद-दावा के प्रमुख आतंकी सरगना हाफिज सईद और तीन अन्य को जमानत दे दी थी  उन्हें मदरसे की जमीन का इस्तेमाल अवैध कार्यों के लिए करने के मामले में गिरफ्तार किया गया था              

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 KARNATAKA CRISIS

स्पीकर को दी फैसले की जिम्मेदारी   कर्नाटक के बागी विधायकों की याचिका पर मंगलवार को सुनवाई पूरी होने के बाद सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुना दिया  कोर्ट ने इस मामले में विधायकों के इस्तीफे पर फैसला लेने की जिम्मेदारी स्पीकर को सौंप दी है  अब एक बार फिर से गेंद स्पीकर के पाले में आ गई है और वो तय करेंगे की बागी विधायकों का इस्तीफा मंजूर करे या नहीं   उन्हें एक तय समय में फैसला लेने के लिए मजबूर नहीं किया जा सकता  कर्नाटक के मसले पर सुप्रीम कोर्ट ने विधायकों को लेकर फैसला सुनाया है कि उन्हें गुरुवार को होने वाले विश्वास मत में हिस्सा लेने के लिए मजबूर भी नहीं किया जा सकता  कोर्ट के इस फैसले के बाद गुरुवार को राज्य विधान सौधा में एचडी कुमारस्वामी के नेतृत्व वाली 14 माह पुरानी कांग्रेस-जदएस गठबंधन सरकार का शक्ति परीक्षण अहम हो गया है  अपनी याचिका में बागी विधायकों ने मांग की है कि स्पीकर केआर रमेश कुमार को उनके इस्तीफे स्वीकार करने का आदेश दिया जाए   मंगलवार को प्रधान न्यायाधीश जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस दीपक गुप्ता और जस्टिस अनिरुद्ध बोस की पीठ के समक्ष अपनी दलीलें पेश करते हुए बागी विधायकों के वकील मुकुल रोहतगी ने अदालत से अंतरिम आदेश बनाए रखने की मांग की, जिसमें बागी विधायकों के इस्तीफों और अयोग्यता के मुद्दे पर स्पीकर को यथास्थिति बनाए रखने के लिए कहा गया था  साथ ही उन्होंने बागी विधायकों को विधानसभा में सत्तारूढ़ गठबंधन द्वारा जारी व्हिप से छूट प्रदान करने की मांग भी की  वहीं, मुख्यमंत्री कुमारस्वामी की ओर से पेश अधिवक्ता राजीव धवन ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट को दो अंतरिम आदेश जारी करने का अधिकार नहीं था  पहले शीर्ष अदालत ने स्पीकर से बागी विधायकों के इस्तीफों और अयोग्यता पर फैसला करने के लिए कहा और फिर यथास्थिति बनाए रखने का आदेश दिया  उन्होंने कहा कि स्पीकर को इस मामले में समयबद्ध तरीके से फैसला करने के लिए मजबूर नहीं किया जा सकता। बागी विधायक एक समूह के रूप में सरकार को अस्थिर कर रहे हैं और अदालत को उनकी याचिकाओं पर विचार नहीं करना चाहिए था     

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 ANUSUIYA UIKEY

बीजेपी नेता ,पूर्व सांसद हैं अनुसुइया उइके   भारतीय जनता पार्टी की तेज तर्रार नेता अनुसुइया उइके को छत्तीसगढ़ का राज्यपाल बनाया गया है  अभी मध्‍यप्रदेश की राज्‍यपाल आनंदीबेन पटेल यह दायित्‍व भी संभाल रही थी   बीजेपी नेता और पूर्व राज्‍यसभा सांसद अनुसुइया उइके को छत्‍तीसगढ़ की राज्‍यपाल नियुक्‍त किया गया है  राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने यह नियुक्ति की है   अभी मध्‍यप्रदेश की राज्‍यपाल आनंदीबेन पटेल यह दायित्‍व भी संभाल रही थी  अनुसुइया उइके  अनुसूचित जनजाति आयोग की राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष भी रही हैं  अनुसुइया उइके भारतीय जनता पार्टी की वरिष्‍ठ नेताओं में गिनी जाती हैं और  उनका ताल्‍लुक छिंदवाड़ा से है      

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 Building Collapse

बारिश के कारण धराशाही हुई इमारत    मुंबई में लगातार हो रही बारिश के बीच शहर के डोंगरी इलाके में बड़ा हदसा हुआ  इस इलाके में एक चार मंजिला इमारत का हिस्सा ढह जाने से मलबे के नीचे 40 से ज्यादा लोग दब गए  इस हादसे में 12 लोगों के मारे जाने की खबर है    डोगरी की संकरी गली में मौजूद इस इमारत में कईं परिवार रहते थे और हादसे के वक्त लोग इमारत में मौजूद थे  अब तक इस हादसे में 12 लोगों के मारे जाने की सूचना है,  वहीं एक मासूम बच्चे समेत पांच लोगों को मलबे से निकाल लिया गया है  मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा है कि शुरुआती जानकारी के अनुसार इमारत 100 साल पुरानी थी और उसमें 15 परिवार रह रहे थे   फिलहाल पूरा ध्यान मलबे में फंसे लोगों को निकालने पर है  मलबे में दबे लोगों में ज्यादातर महिलाएं और बच्चे हैं जिन्हें फायर ब्रिगेड की टीम और स्थानिय लोग निकाल रहे हैं  बताया जा रहा है कि बीएमसी की खतरनाक इमारतों की लिस्ट में इस इमारत का नाम नहीं था  बिल्डिंग गिरने के तुरंत बाद ही राहत और बचाव कार्य शुरू कर दिया गया वहीं एनडीएआरएफ की टीम को पहुंचने में वक्त लगा  कौसरबाग नाम की इस इमारत में उपर फ्लैट बने हुए थे और नीचे दुकानें बनी हुई थीं   जिस इलाके में इमारत बनी हुई है वो एक बेहद संकरी गली है और वहां तक पहुंचने में दिक्कत आ रही है  इस कारण राहत और बचाव काम धीमी गति से हुआ         

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 Chandrayaan-2

बाहुबली पर जाएगा चंद्रयान    भारत का मिशन चंद्रयान-टू  अपने लॉन्च के करीब पहुंच रहा है  ISRO रविवार से चंद्रयान-2 का काउंटडाउन शुरू करेगा  जिसके बाद 15 जुलाई को इसरो के सबसे ताकतवर रॉकेट 'बाहुबली' पर सवार होकर चंद्रयान-2 अपने मिशन पर निकल जाएगा   इसरो चीफ के सीवान के अनुसार, यह 20 घंटे का काउंटडाउन होगा  अब तक सबकुछ काफी अच्छी तरह चल रहा है  जीएसएलवी 15 जुलाई को सुबह 2.51 बजे श्रीहरिकोटा स्थित सतीश धवन स्पेस सेंटर से उड़ान भरेगा  640 टन का 44 मीटर ऊंचा G S L V  मेक III  जिसका नाम 'बाहुबली' रखा गया है  वो 3.8 टन के चंद्रयान-2 को लेकर उड़ान भरेगा  अपनी 16 मिनट की उड़ान में G S L V मेक -III रॉकेट 603 करोड़ रुपए की लागत से बने चंद्रयान को अर्थ पार्किंग में ले जाएगा  काउंटडाउन के दौरान रॉकेट की चैकिंग होगी और इसमें फ्यूल डाला जाएगा   ISRO अब तक तीन G S L V मेक -III रॉकेट अंतरिक्ष में भेज चुका है और इनमें सबसे पहला रॉकेट 18 दिसंबर 2014 को भेजा गया था   भारत के इस बड़े मिशन चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग को देखने के लिए लोगों में भी खासा उत्साह है और उसे लाइव देखने के लिए ISRO की साइट पर अब तक हजारों  लोगों ने रजिस्ट्रेशन करवा लिया है             

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 KARNATAKA KA NATAK

बागी विधायकों के संपर्क में येदियुरप्पा   कर्नाटक में जारी राजनीतिक नाटक के बीच बीजेपी अध्यक्ष येदियुरप्पा ने कहा है कि वे सदन में शक्ति परीक्षण के लिए तैयार है  येदियुरप्पा ने कहा कि अगर सरकार विश्वास प्रस्ताव लाना चाहती है तो उन्हें कोई आपत्ति नहीं है  कर्नाटक के पूर्व सीएम ने बताया कि वे सोमवार तक इंतजार करेंगे कर्नाटक के सीएम एचडी कुमारस्वामी ने भी कहा है कि उनकी सरकार को कोई खतरा नहीं है वे विश्वास प्रस्ताव लाएंगे  पूर्व सीएम येदियुरप्पा ने स्वीकार किया कि वे मुंबई में मौजूद कांग्रेस के बागी विधायकों से संपर्क में है, वे सभी खुश हैं  येदियुरप्पा ने कहा कि एचडी कुमारस्वामी को तुरंत इस्तीफा देना चाहिए और नई सरकार गठित होने देना चाहिए, लोग इस सरकार से उब चुके हैं इधर पांच और बागी विधायक सुप्रीम कोर्ट चले गए हैं इन विधायकों ने कोर्ट से शिकायत की है कि स्पीकर के आर रमेश कुमार उनका इस्तीफा स्वीकार नहीं कर रहे हैं  इन विधायकों के नाम हैं, के सुधाकर, रोशन बेग, एमटीबी नागराज, मुनिरत्न और रत्न सिंह इन विधायकों का कहना है कि स्पीकर का रवैया उनके संवैधानिक और मौलिक अधिकारों का उल्लंघन है  विधायकों ने अपनी याचिका में कहा है कि उन्हें सरकार का समर्थन करने को कहा जा रहा है अन्यथा उन्हें अयोग्य घोषित करने की धमकी दी जा रही है  रिपोर्ट के मुताबिक इनमें से कुछ विधायक जब इस्तीफा देने गए थे तो उनके साथ धक्का-मुक्की गई थी  कानूनी विशेषज्ञों के मुताबिक विधायिका का कोई भी चयनित जनप्रतिनिधि अपनी चेतना के आधार पर इस्तीफा दे सकता है ये उसका मौलिक अधिकार है              

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 IAF AIR MARSHAL

अब कंपेगा दुश्मन ,रहेगा औकात में    राफेल और सुखोई मिलकर मिनटों में दुश्मन के दांत खट्टे कर सकते हैं  उस पर कहर बरपा सकते हैं   राफेल आने के बाद भारतीय वायुसेना की ताकत में जबरदस्त इजाफा होगा  देश में राफेल फायटर जेट लाने की तैयारी है वहीं फ्रांस में वायुसेना की टीम मौजूद है  भारतीय वायुसेना के वाइस एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया ने इस फायटर जेट का टेस्ट भी लिया है   वो यहां हो रहे गरुड़ 6 युद्धाभ्यास के लिए मौजूद हैं  इस दौरान उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि वायुसेना में राफेल और सुखोई-30 का मेल दुश्मनों पर कहर बरपाएगा  उन्होंने कहा, भारतीय वायुसेना की राफेल और सुखोई 30 एमकेआई की संयुक्त कार्रवाई की योजना सफल रही तो वह पाकिस्तान समेत सभी दुश्मन देशों पर युद्ध में कहर बरपाएगी  वायुसेना उपाध्यक्ष ने कहा, राफेल और सुखोई 30 के एक साथ हमले के लिए तैयार होने पर पाकिस्तान 27 फरवरी जैसा जवाबी हमला करने से डरेगा   बालाकोट पर भारतीय वायुसेना की बमबारी के अगले दिन पाकिस्तानी वायुसेना ने भारतीय सीमा में घुसकर जवाबी कार्रवाई की कोशिश की थी लेकिन वह असफल रही थी   एयर मार्शल भदौरिया ने कहा, दोनों लड़ाकू विमानों का संयुक्त कार्रवाई पाकिस्तान ही नहीं दुनिया की किसी भी देश पर भारी पड़ेगी   यह खास तरह की तकनीक वाले लड़ाकू विमानों का समन्वय होगा  तब पाकिस्तान को 27 फरवरी जैसी कार्रवाई के दौरान भारी नुकसान उठाना पड़ेगा  कुछ महीनों बाद भारतीय वायुसेना के पास लंबी दूरी तक मार करने वाले बेहतर हथियार होंगे  एयर मार्शल भदौरिया 36 राफेल विमानों की खरीद प्रक्रिया से सन 2016 से जुड़े हुए हैं    उल्लेखनीय है कि 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर जैश-ए-मुहम्मद आतंकी के आत्मघाती हमले में 40 जवान शहीद हुए थे  इसी के बाद भारत ने बालाकोट के आतंकी शिविर पर हमला किया था    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

   BUS HADSA

यमुना एक्सप्रेस पर हादसा, 30  की मौत   यमुना एक्सप्रेस वे पर सोमवार सुबह बड़ा हादसा हो गया है  उत्तर प्रदेश रोडवेज की एक बस ' झरना नाले 'में गिर गई  बस में 50 से ज्यादा यात्री सवार थे, इनमें से 30  यात्रियों की मौत हो गई   यमुना एक्सप्रेस वे पर आगरा के एत्तमादपुर इलाके में  यूपी रोडवेज की बस झरना नाले में जा गिरी  इस हादसे में मौके पर ही 29 यात्रियों की मौत हो गई  24 घायलों को पास के अस्पतालों में भर्ती करवाया गया  जहाँ एक व्यक्ति ने दम तोड़ दिया   लखनऊ से नई दिल्ली जा रही अवध डिपो की डबल डेकर बस से हादसा हुआ  घटना के बाद मौके पर हड़कंप मच गया  यमुना एक्सप्रेस वे पर हुए इस भीषण हादसे के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी घायलों के बेहतर इलाज के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए हैं  वहीं जब इसकी जानकारी स्थानीय पुलिस को लगी तो घटनास्थल पर पहुंचकर पुलिस द्वारा बचाव कार्य शुरू किया गया  वहीं इस हादसे को लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ ने दु:ख जताया है और घायलों को सभी जरुरी इलाज मुहैया कराने के कलेक्टर और एसपी को निर्देश दिए हैं  वहीं इस हादसे के बदा यूपी रोडवेज ने घटना में मारे गए यात्रियों के परिवारों को 5-5 लाख का मुआवजा देने की घोषणा की है  यह घटमा तड़के साढ़े चार बजे की है  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

NAG MISSILE

नाग के तीन सफल परीक्षण देश के दुश्मनों के छक्के छुड़ाने के लिए भारत में ही बनाई गई एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल 'नाग' का  सफल परीक्षण किया गया है नाग की मारक क्षमता लगभग 4 किलोमीटर तक है पोखरण के फायरिंग रेंज में नाग भारतीय मिसाइल का तीन बार सफल परीक्षण किया गया दिन के साथ ही रात में भी इस परीक्षण को अंजाम दिया गया  इस मिसाइल के सफल परीक्षण के बाद देश के डिफेंस सिस्टम में और मजबूती आएगी नाग' तीसरी पीढ़ी का भारत का स्वदेश निर्मित एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल है ये उन पांच मिसाइल प्रणालियों में से एक है जो डीआरडीओ द्वारा एकीकृत निर्देशित मिसाइल विकास कार्यक्रम के तहत तैयार की गई हैं। इस मिसाइल को तैयार करने में लगभग तीन सौ करोड़ की लागत आई है वहीं इसकी मारक क्षमता लगभग 4 किलोमीटर तक है  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

sapna choudhary

सोच समझकर राजनीति में आईं सपना  मशहूर हरियणवी डांसर सपना चौधरी ने भाजपा की सदस्यता ले ली है सपना ने रविवार को भाजपा की प्राथमिक सदस्यता ग्रहण की  उन्होंने यह सदस्यता भाजपा के सदस्यता अभियान के तहत ली  डांसर सपना चौधरी ने बीजेपी का दामन थाम लिया है  बीजेपी के सदस्य्ता अभियान में सपना चौधरी को मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा नेता शिवराज सिंह ने पार्टी के एक विशेष कार्यक्रम में भाजपा की सदस्यता दिलवाई  इस दौरान दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी समेत कईं नेता मौजूद थे सदस्यता ग्रहण करने के बाद सपना चौधरी ने मीडिया से कहा है कि मैंने सोच समझकर यह फैसला लिया है  लोकसभा चुनाव के पहले से ही सपना चौधरी के भाजपा और कांग्रेस में शामिल होने को लेकर अलग-अलग कयास लगाए जा रहे थे  हालांकि, सभी कयासों को दरकिनार करते हुए उन्होंने किसी भी पार्टी की सदस्यता नहीं ली थी  लेकिन अब जब चुनाव हो गए हैं तो उन्होंने औपचारिक रूप से भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर ली है  हालांकि, वो चुनाव प्रचार के दौरान दिल्ली में मनोज तिवारी के लिए प्रचार करती नजर आईं थीं  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

SHASHI THAROOR

भगवा तो है गौरव करने वाला  रंग टीम इंडिया विश्वकप के सेमीफाइनल में पहुंच गई है और जहां अब कप के लिए उम्मीदें बढ़ गईं हैं वहीं इंग्लैंड के खिलाफ हुए मैच में टीम इंडिया की जर्सी का रंग केसरिया किए जाने पर विवाद भी हुआ इसी विवाद पर एक बार फिर से कांग्रेस नेता शशि थरूर का बयान आया है थरूर ने अपने बयान में भगवा रंग को गौरव करने वाला रंग करार दिया है कांग्रेस नेता शशि थरूर ने एक लेक्चर के दौरान कहा कि आईसीसी के नियमों के अनुसार अगर दो टीमों की जर्सी एक ही रंग की है तो घरेलु टीम को अपनी जर्सी का रंग नहीं बदलना पड़ता वरन मेहमान टीम अपनी जर्सी का रंग बदलती है इसलिए भारतीय टीम ने केसरिया और नीले रंग की जर्सी को चुना थरूर ने कहा कि इसलिए मैंने भी जेब थोड़ा नीले रुमाल के साथ केसरिया जैकेट पहनी थी, जो कि इंग्लैंड के खिलाफ मैच में भारतीय टीम के समर्थन में पहनी गई थी उन्होंने आगे कहा कि आखिर क्यों केसरिया रंग को किसी राजनीतिक विचारधारा के सामने समर्पित क्यों करूं? भगवा बेहद ही गर्व करने वाला भारतीय रंग है और यह हमारे तिरंगे में से भी एक रंग है इसलिए इसे पहनने में मुझे खुशी होती है     

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

pakistan ghospet

ऑपरेशन विजय के 20 साल पूरे हुए  भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव इन दिनों भले ही कम हो लेकिन सीमा पर सीजफायर का उल्लंघन होता रहता है   इस बीच सेना प्रमुख का बयान आया है कि पाकिस्तान फिर से कारगिल जैसी गलती नहीं करेगा  "ऑपरेशन विजय" के 20 साल पूरे होने के मौके पर सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने कहा कि पाकिस्तान 1999 में कारगिल जैसी घुसपैठ की हिम्मत अब कभी नहीं करेगा, क्योंकि उसने उस जुर्रत का दुष्परिणाम भुगता था  उन्होंने जोर देकर बताया कि सुरक्षा बल सीमा की कड़ी निगरानी कर रहे हैं, चप्पे-चप्पे पर उनकी निगाह है   जनरल रावत ने ने कहा कारगिल में घुसपैठ की घटना के बाद पाकिस्तान के खिलाफ भारत के सीमित युद्ध को सेना ने "ऑपरेशन विजय" का नाम दिया था   सेना प्रमुख ने कहा, देश की सीमा का ऐसा कोई हिस्सा नहीं है जो हमने बिना सुरक्षा और निगरानी के छोड़ा हो   सभी इलाकों में कड़ी निगरानी और नियमित गश्त का कार्य चल रहा है  जनरल रावत ने कहा, हम नहीं सोचते कि पाकिस्तान कारगिल जैसी घुसपैठ की अब कोई कोशिश करेगा  सेना प्रमुख  ने कहा कारगिल के पकिस्तान ने  जो दुष्परिणाम झेले, उससे विश्वास है कि आने वाले दिनों और वर्षों में पाकिस्तान भारतीय भूमि में घुसपैठ जैसा कोई कदम नहीं उठाएगा   जनरल रावत ने बताया कि सेना "ऑपरेशन विजय" के 20 साल पूरे होने का समारोह मना रही है जबकि उसकी उत्तरी कमान और 14 कॉर्प्स कई हफ्ते चलने वाले कार्यक्रम आयोजित कर रहे हैं   सेना की इन दोनों ने शाखाओं ने सबसे आगे रहकर कार्रवाई की थी   कार्यक्रम के दौरान जनरल रावत ने कारगिल के योद्धाओं को समर्पित मशहूर गीतकार समीर के लिखे विशेष गीत के वीडियो का लोकार्पण किया   इस वीडियो में मेगास्टार अमिताभ बच्चन, सुपरस्टार सलमान खान, विक्की कौशल और अन्य प्रमुख लोगों ने भूमिका निभाई है  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

Mahendra singh dhoni

 अब इस बारे में धोनी का पहली बार बयान सामने आया है। कुछ लोग तो चाहते हैं कि मैं श्रीलंका के खिलाफ होने वाले मैच से पहले संन्यास ले लूं। धोनी के लिए यह वर्ल्ड कप इतना अच्छा नहीं रहा है।  महेंद्र सिंह धोनी ने कुल  7 मैचों में 44.60 की औसत से मात्र 223 रन ही बना पाए हैं।  पिछले कुछ दिनों से दिग्गज भारतीय क्रिकेटर महेंद्रसिंह धोनी के संन्यास की अटकलें लगाई जा रही है। अब इस बारे में धोनी का पहली बार बयान सामने आया है। भारत को शनिवार को वर्ल्ड कप में श्रीलंका का सामना करना है। धोनी का प्रदर्शन इस वर्ल्ड कप में उनकी ख्याति के अनुरुप नहीं हो पा रहा है। इसके चलते उनके खेल की आलोचना हो रही हैं। इस बीच कुछ दिनों पहले ऐसी रिपोर्ट आई थी कि वर्ल्ड कप के बाद धोनी अपने इंटरनेशनल करियर को विराम दे देंगे। इस मामले में एबीपी न्यूज ने धोनी के हवाले से कहा - मैं नहीं जानता मैं क्रिकेट से कब संन्यास लूंगा। कुछ लोग तो चाहते हैं कि मैं श्रीलंका के खिलाफ होने वाले मैच से पहले संन्यास ले लूं।   कुछ दिनों पहले बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा था - ' धोनी इस वर्ल्ड कप के बाद विदाई ले सकते हैं। यदि भारत ने 14 जुलाई को विश्व कप जीता तो यह धोनी के लिए आदर्श विदाई होगी।' वैसे इस मामले में आधिकारिक रूप से कोई भी बयान नहीं दे रहा है।   धोनी के लिए यह वर्ल्ड कप इतना अच्छा नहीं रहा है। वे 7 मैचों में 44.60 की औसत से मात्र 223 रन ही बना पाए हैं। उनका स्ट्राइक रेट 93.30 रहा है। वैसे यह खराब प्रदर्शन नहीं है लेकिन धोनी के हिसाब से यह कमजोर है और इसी के चलते आलोचकों को उनकी बुराई का मौका मिल गया है। 2018 के खराब प्रदर्शन के बाद धोनी ने इस साल 16 वनडे मैचों में 61.11 की औसत और 83.71 की औसत से 550 रन बनाए हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

कहीं छूट ,कुछ सुविधाएँ ,कहीं टैक्स की मार  लोकसभा चुनाव के बाद मोदी सरकार का पहला पूर्ण बजट  वित्त मंत्री निर्मली सीतारमण ने संसद में पेश किया इस दौरान उन्होंन कई बड़ी घोषणाएं की हैं, जो देश की  दशा और दिशा को बदलने वाली हैं    वित्त मंत्री ने कहीं छूट के साथ कुछ सुविधाएँ  दीं  तो कहीं टैक्स की मार भी दी है    इनकम टैक्स दाखिल करने के नियमों को सरल किया गया है   जिन लोगों के पास पैन कार्ड नहीं है, वो आधार नंबर से भी टैक्स रिटर्न भर सकते हैं   यानी आयकर भरने के लिए सहूलियतों को बढ़ाया गया है    पांच लाख रुपए की आय वाले लोगों को कोई टैक्स नहीं देने होंगे   इलेक्ट्रॉनिक वाहनों की खरीद पर लिए गए लोन पर सरकार 1.5 लाख रुपये की कर छूट देगी   इलेक्ट्रिक वाहनों की खरीद पर टैक्स 12 पर्सेंट से घटकर होगा 5 फीसदी   इसके ब्याज पर भी मिलेगी राहत   सस्ता घर खरीदने वालों को भी छूट मिलेगी  45 लाख रुपए तक का हाउसिंग लोन पर 3.5 लाख रुपए तक की छूट दी गई है   वहीं, वित्त मंत्री ने अमीर लोगों पर ज्यादा टैक्स लगाने का प्रावधान किया है   उन्होंने कहा कि जिन लोगों की सालाना आय दो से पांच करोड़ रुपए तक है, उन्हें तीन फीसद ज्यादा टैक्स देना होगा और जिनकी सालाना आय पांच करोड़ रुपए से ज्यादा है, उन्हें सात फीसद ज्यादा टैक्स देना होगा   पर्यटन के क्षेत्र में 17 ऐसी जगहों को चुना है जिन्हें विश्वस्तर का बनाया जा सकता है   आदिवासियों की जो परंपरा है, उन्हें जीवंत रखने और बढ़ाने की व्यवस्था होगी   इस तरह स्थानीय स्तर पर ही रोजगार के मौके बढ़ाए जाएंगे, ताकि लोगों का पलायन रोका जा सके और उनकी आय बढ़ाई जा सके    महिलाओं के लिए मुद्रा स्कीम के तहत एक लाख रुपए का लोन साथ ही जनधन खाते में 5 हजार की ओवरड्राफ्ट की सुविधा दी   उच्च शिक्षा के लिए 400 करोड़ का प्रावधान किया गया है    नेशनल रिसर्च फाउंडेशन बनाया जाएगा   कईं मंत्रालय जो अलग-अलग तरह की ग्रांट देते हैं उन्हें एक छत के नीचे लाया जाएगा    इस फंड का उपयोग राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत इसका उपयोग किया जाएगा   विदेशी छात्रों को भारत में लाने के लिए 'स्टडी इन इंडिया' स्कीम लाई जाएगी   स्वच्छता की बात करें तो 95 प्रतिशत से ज्यादा शहर खुले में शौच मुक्त   महात्मा गांधी की 150वीं बरसी पर उनकी नीतियों और शिक्षा की तरफ ध्यान देना होगा   साफ पेयजल सभी भारतीयों को उपलब्ध करवाने के मकसद से जल शक्ति मंत्रालय बनाया गया है   देश के 256 जिलों में अभियान चलाया जाएगा   किसानों के लिए डेयरी उद्योग के विकास की दिशा में काम होगा  अन्न दाता को उर्जा दाता बनाने की पहल करेगी सरकार   व्यापार के साथ जिंदगी जीने की सुविधा किसानों के लिए भी उपलब्ध करवाई जाएंगी   वित्त मंत्री ने छोटे और मझौले उद्योंगों को तोहफा देते हुए महज  59 सेकंड में 1 करोड़ का लोन देने की स्कीम का ऐलान किया है    वहीं 1.5 करोड़ तक के टर्नओवर वाले व्यापारियों के लिए पेंशन स्कीम का भी ऐलान किया है

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

Ambati Rayudu

अंबाती रायुडू ने क्रिकेट से लिया संन्यास वर्ल्ड कप में नजरअंदाज किए जाने से हैं नाराज   आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 के लिए नजरअंदाज किए गए सीनियर भारतीय क्रिकेटर अंबाती रायूडू ने बुधवार को क्रिकेट से संन्याय ले लिया रायुडू ने इस बारे में पत्र के जरिए बीसीसीआई को सूचित कर दिया   रायुडू ने  क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास लिया हैं 33 वर्षीय रायुडू को बीसीसीआई के सिलेक्टर्स ने इंग्लैंड और वेल्स में चल रहे वर्ल्ड कप के लिए अप्रैल महीन में भारतीय टीम चुनते वक्त नजरअंदाज किया था सिलेक्टर्स ने उनकी बजाए विजय शंकर को महत्व दिया था और बताया गया था कि विजय को उनकी थ्री डायमेंशनल क्वालिटी  की वजह से चुना गया है वैसे रायुडू को रिजर्व खिलाड़ियों में चुना गया था जिससे उनके वर्ल्ड कप खेलने की उम्मीद बनी हुई थी लेकिन रायुडू के साथ इसके बाद दो बार नाइंसाफी हुई  ओपनर शिखर धवन को चोट लगी तो रिषभ पंत को उनकी जगह भारतीय टीम में चुना गया इसके बाद जब विजय शंकर चोट की वजह से बाहर हुए तो उनकी जगह मयंक अग्रवाल को टीम में शामिल किया गया, जबकि मयंक ने अभी तक भारत की तरफ से एक भी वनडे नहीं खेला है   33 वर्षीय रायुडू ने 55 इंटरनेशनल वनडे मैचों में 47.05 की औसत से 1694 रन बनाए  उन्होंने इस दौरान 3 शतक और 10 अर्द्धशतक लगाए उन्होंने 6 अंतरराष्ट्रीय टी20 मैचों में भी भारत का प्रतिनिधित्व किया   रायुडू के साथ हो रहे इस तरह के व्यवहार के मद्देनजर आइसलैंड क्रिकेट ने उन्हें अपने देश की स्थायी नागरिकता प्रदान करने की पेशकश की      

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

rahul stihfa

राहुल बोले -मैं अध्यक्ष नहीं    पार्टी जल्द तय करे अध्यक्ष  राहुल गाँधी ने कहा मैं पार्टी का अध्यक्ष नहीं हूं कांग्रेस वर्किंग कमेटी की जल्द बैठक कर नया अध्यक्ष चुने  मैने कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफ़ा दे दिया है   इस्तीफे पर अडिग कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को मनाने की चल रही कवायद लगभग फेल हो गई हैं उन्होंने तमाम बड़े नेताओं के साथ अश्कोल गेहलोत और कमलनाथ के तर्कों को भी सिरे से नाकार दिया है बुधवार को उन्होंने एक बयान में कहा कि, 'पार्टी बिना किसी देरी के जल्द से जल्द नए अध्यक्ष का चुनाव करे  मैं इस पूरी प्रक्रिया का हिस्सा नहीं हूं   मैंने पहले ही अपना इस्तीफा सौंप दिया है और अब मैं पार्टी का अध्यक्ष नहीं हूं  कांग्रेस वर्किंग कमेटी जल्द बैठक कर नया अध्यक्ष चुने   इस्तीफे पर अडिग कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को मनाने की चल रही कवायद के बीच पार्टी में उनके उत्तराधिकारी की तलाश भी शुरू हो गई है अभी चल रही चर्चाओं में तीन नेताओं के नाम सामने आए हैं   इन तीन नेताओं में मल्लिकार्जुन खड़गे, सुशील कुमार शिंदे और राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत शामिल हैं  बड़े बदलाव के प्रयास में जुटी कांग्रेस अब इस सवाल का भी हल तलाश रही है कि राहुल की जगह कौन लेगा                  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

bam dhamaka

  सेना का बम फटा , गई तीन की जान झांसी में सेना की फील्ड फायरिंग रेंज से चांदमारी के बाद बचे बम के हिस्से को घर लाना एक शख्स को भारी पड़ गया बम से पीतल निकालने के दौरान ऐसा धमाका हुआ कि शख्स को तो जान गंवानी ही पड़ी उसकी बेटी और एक साल के मासूम की भी मौत हो गई घटना शिवपुरी के मसूदा गांव की है   श्याम जाटव बकरी चराने के दौरान सेना की फील्ड फायरिंग रेंज में चला गया  वहां पड़े बम के के बचे हिस्से को इस लालच में घर ले आए कि उससे पीतल निकालकर बेच देंगे जैसे ही घर में उन्होंने बम से पीतल निकालना शुरू किया  उसी वक्त जोरदार धमाका हो गया  जिससे मौके पर ही श्याम, उनकी बेटी सुखदेवी और एक साल के मासूम की मौत हो गया । जबकि धमाके में एक शख्स घायल है घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस गांव पहुंच और इस मामले की जाँच शुरू कर दी है |

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

kishtwad

  36  लोगों की मौत, 22 घायल जम्मू कश्मीर के किश्तवाड़ में बड़ा हादसा हो गया है यहां एक यात्री बस गहरी खाई में गिर गई, इस हादसे में 36  यात्रियों की मौत हो गई वहीं 19  यात्री गंभीर घायल हो गए हैं बताया जा रहा है कि मृतकों की संख्या में और इजाफा हो सकता है किश्तवाड़ के डिप्टी कमिश्नर अंग्रेज सिंह राना ने  बताया है कि इस घटना में 36  यात्रियों की मौत हो गई है,वहीं 19  घायल हो गए हैं यात्रियों से भरी एक मेटाडोर केशवान से किश्तवाड़ की तरफ आ रही थी इसी दौरान वह  बस गहरी खाई में गिर गई घटना की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और खाई में गिरे लोगों को बचाने की कवयाद में जुट गई गंभीर हालत में निकाले गए लोगों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती किया गया है 

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

barish

बंगाल की खाड़ी में मजबूत सिस्टम बंगाल की खाड़ी से एक मजबूत सिस्टम लगातार आगे बढ़ रहा है जो जुलाई के पहले सप्ताह में मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ को तरबतर करेगा इसके बाद ही दोनों प्रदेशों को गर्मी से राहत मिलने की सम्भावना है | मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में यूँ तो मानसून ने दस्तक दे दी है लेकिन अब भी कई इलाकों में लोग गर्मी से बेहाल हैं | सरकार से लेकर किसान तक को अच्छी बारिश का इंतजार है | लेकिन यह इंतजार अब खत्म होने के करीब है बंगाल की खाड़ी में एक मजबूत सिस्टम तेजी से सक्रिय हुआ  है  यह कर्नाटक, ओडिशा के रास्ते छत्तीसगढ़ पहुंचेगा मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि एक जुलाई से  प्रदेश के कुछ हिस्सों में बारिश होगी  इसके बाद जुलाई के पहले सप्ताह में  झमाझम बारिश हो सकती मौसम वैज्ञानी एचपी चंद्रा का कहना है कि इस साल मानसून देरी से आया, जितनी सक्रियता का अनुमान लगाया जा रहा था उतना हुआ नहीं मगर अब मानसून की गतिविधियां बढ़ने जा रही हैं  जुलाई-अगस्त ही हैं मानसून अपने रंग में आएगा फिलहाल जून में दोनों प्रदेश में औसत से कम बारिश हुई है, जो चिंता का विषय है अधिकांश जगह तापमान अभी भी सामान्य से अधिक है

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

ncr

  असम में राष्ट्रीय नागरिक रेजिस्टर (NRC) के मसौदे से 1 लाख से अधिक लोगों को बाहर कर दिया गया है। इन्हें NRC की मसौदा सूची से अलग करने का कारण भारतीय नागरिकता के लिए अयोग्य पाया जाना बताया गया है। पिछले साल 30 जुलाई को NRC की जारी सूची से बाहर रह गए 40 लाख लोगों के नामों के साथ ही अब यह नाम भी जुड़ गए हैं। NRC के राज्य संयोजक के बुधवार को जारी बयान के अनुसार 'लोकल रेजिस्ट्रार ऑफ सिटिजन रेजिस्ट्रेशन' (LRCR) की NRC की पड़ताल की प्रक्रिया पूरी होने के बाद NRC की सूची में शामिल 1,02,462 लोगों को अवैध करार दे दिया गया। चूंकि उनकी दी गई जानकारियां सही नहीं पाई गई थीं। अब NRC से बाहर किए जाने वाले अतिरिक्त लोगों की सूची में वह लोग शामिल हैं जिन्हें विदेशी पाए जाने पर अयोग्य घोषित किया गया है। या फिर उन्हें संदिग्ध मतदाता पाया गया है। इसके अलावा, विदेशी ट्रिब्यूनलों में लंबित मामलों (पीएफटी) वाले लोगों को भी NRC की मसौदा सूची से निकाल दिया गया है। यानी यह सभी भारतीय नागरिक होने के लिए अयोग्य पाए गए हैं। उल्लेखनीय है कि सन्‌ 1951 के बाद से पहली बार असम में अवैध आव्रजकों की पहचान की जा रही है। राष्ट्रीय नागरिक रेजिस्टर (NRC) को सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में अपडेट किया जा रहा है।इसकी अंतिम सूची आगामी 31 जुलाई को जारी की जाएगी। जिन लोगों को इस सूची से बाहर किया गया है उनका ब्योरा NRC की वेबसाइट पर उपलब्ध करा दिया गया है। उन्हें पत्र भेजकर भी सूचित किया जाएगा। इसके अलावा NRC से बहिष्कृत लोगों की जानकारी NRC सेवा केंद्रों (एनएसके), उपायुक्तों के दफ्तरों, उप मंडलीय अधिकारी (सिविल) और सर्किल अफसरों को भी उपलब्ध कराई गई है। जिन लोगों को NRC की सूची से बाहर किया गया है, वह अपना दावा कर सकते हैं। इसके लिए सुनवाई आगामी पांच जुलाई से शुरू होगी। जिन लोगों को अयोग्य पाया गया है, वह अपने दावों और आपत्तियों के निस्तारण की सुनवाई के दौरान बतौर गवाह पेश होंगे। NRC की मसौदा सूची से बाहर किए गए लोगों के नामों में उन बहिष्कृत लोगों के दावों के नतीजे नहीं हैं, जिनके लिए 15 फरवरी से 26 जून तक सुनवाई की गई है। गौरतलब है कि करीब 3.29 करोड़ लोगों ने NRC में अपने नाम शामिल कराने के लिए आवेदन किया था। इनमें से 2.9 करोड़ लोगों को NRC के योग्य पाया गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

stf

4 आतंकी गिरफ्तार ISIS से जुड़े हैं तार कोलकाता पुलिस की स्पेशल टॉस्क फोर्स ने बड़ी सफलता हासिल की है  | कोलकाता एसटीएफ ने निओ-जमात-उल-मुजाहिदीन आतंकी संगठन के चार आतंकवादियों को गिरफ्तार किया है  | ये आतंकी संगठन बांग्लादेश से संचालित होता है | ये आतंकी संगठन ISIS से भी जुड़ा है | इस आतंकी संगठन का ढाका में होली क्रिश्चियन बेकरी हमले में भी हाथ था | नियो-जेएमबी आतंकी संगठन J M B से टूटकर बना है जो फिलहाल ISIS के द्वारा संचालित किया जा रहा है  | पकड़े गए आतंकियों में से दो की पहचान मोहम्मद जियाउर रहमान और मोमेनूर रशीद के तौर पर है | दोनों ही बांग्लादेशी नागरिक हैं | ये आतंकी कोलकाता के सिलदाह रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार किए गए हैं | इन आतंकियों से मोबाइल मिला है जिसमें फोटो,वीडियो के साथ ही जिहादी टेक्स्ट मौजूद है  | इसके अलावा जिहादी साहित्य भी मिला है |  वहीं दो अन्य आतंकी मोहम्मद साहिन आलम और रोबिउल इस्लाम को हावड़ा स्टेशन से गिरफ्तार किया गया है | आलम बांग्लादेशी नागरिक है, वहीं इस्लाम बंगाल के बीरभूम जिले का ही रहने वाला है  |

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

bsp mayavati

अखिलेश यादव पूरी तरह अपरिपक्व  मायावती इन दिनों लोकसभा चुनाव के परिणामों पर मंथन कर रही हैं | मायावती को अब इस लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश में बसपा-सपा गठबंधन को मिली हार के बाद से ही दोनों दलों के बीच खींचतान नजर आने लगी थी | बड़ी हार के बाद दोनों ही पार्टियों ने विधानसभा उपचुनाव अलग लड़ने की घोषणा तक कर दी थी | अब एक बार फिर बसपा सुप्रीमों मायावती का दर्द गठबंधन को लेकर सामने आया है | मायवती ने  बसपा विधायकों, सांसदों और वरिष्ठ नेताओं की बैठक ली इस बैठक में उन्होंने समाजवादी गठबंधन को लेकर लंबी चर्चा की और उसे लोकसभा चुनाव में मिली हार की वजह बताया बैठक को लेकर सामने आ रही मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मायावती ने यहां तक कहा कि समाजवादी पार्टी से लोकसभा चुनाव में गठबंधन करना उनकी सबसे बड़ी भूल थी  | उन्होंने बैठक में ये भी कहा कि समाजवादी पार्टी से गठबंधन का फैसला जल्दबाजी में नहीं बल्कि सोच विचार कर किया गया था, लेकिन जो नतीजे आना चाहिए थे वे सामने नहीं आ सके इसकी वजह उन्होंने सपा कार्यकर्ताओं द्वारा बसपा के उम्मीदवारों को सहयोग ना करने को भी बताया मायावती ने अखिलेश यादव को गठबंधन के लिए पूरी तरह अपरिपक्व बताया साथ ही कहा कि मैंने उन्हें आगाह किया लेकिन वे समझ नहीं सके और उनकी पार्टी से भीतरघात होता रहा |      

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

satymitranand ji maharaj

  हिंदू समाज में शोक की लहर  भारत मां के परम आराधक, निवृत्त-जगद्गुरू शंकराचार्य, पद्मभूषण स्वामी सत्यमित्रानंद गिरि जी महाराज का मंगलवार को निधन हो गया आज सुबह  वह अपना शरीर त्यागकर ब्रह्मलीन हो गए   सत्यमित्रानन्द जी  हरिद्वार में भारत माता मंदिर के संस्थापक भी थे | स्वामी सत्यमित्रानन्द गिरि का जन्म 19 सितंबर 1932 में उत्तर प्रदेश के आगरा में हुआ था उनका मूल नाम 'अम्बा प्रसाद' था  | स्वामी सत्यमित्रानंद गिरि महाराज के निधन का समाचार मिलते ही संत समाज सहित हिंदू समाज में शोक की लहर छा गई  वह अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के मुद्दे को लेकर भी काफी मुखर रहे हैं  | नवंबर 2018 में भी उन्होंने कहा था- अगर राम मंदिर अयोध्या में नहीं बनेगा, तो क्या मक्का, वेटिकन सिटी या किसी अन्य तीर्थ में बनेगा? उन्होंने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर के अनेक प्रमाण मिल चुके हैं उन्होंने कहा था कि पुरातत्व विभाग से भी यह साबित हो गया है कि अयोध्या में मंदिर था, क्योंकि वहां आम्रपल्लव कलश व मूर्तियां मिली थीं| उन्होंने कहा कि अगर मुस्लिम पक्ष मंदिर के लिए बड़प्पन दिखाएगा तो मस्जिद बनवाने की जिम्मेदारी मेरी है | इसके लिए जो सामग्री की आवश्यकता होगी वे भारत माता मंदिर की तरफ से उपलब्ध कराएंगे |

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

aatankvadi

चार आतंकियों को किया ढेर जम्मू-कश्मीर में आतंकरोधी अभियान जारी है और एक के बाद एक आतंकियों को ढेर किया जा रहा है  शनिवार को मुठभेड़ में एक आतंकी के मारे जाने के बाद रविवार को भी सुरक्षाबलों ने एनकाउंटर में चार आतंकियों को मार गिराया है | मुठभेड़ स्थल से भारी मात्रा में हथियार और गोला बारूद बरामद हुए हैं  | दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिले के कीगम में स्थित दारमदोरा इलाके में रविवार को हुई मुठभेड़ में दो आतंकी मारे गए हैं | बताया जा रहा है कि सुरक्षाबलों को इलाके में आतंकियों की मौजूदगी की सूचना मिली थी जिसके बाद सर्च ऑपरेशन चलाया गया इस दौरान आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर फायरिंग शुरू कर दी काफी देर चली मुठभेड़ के बाद आखिरकार सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों को मार गिराया इन आतंकियों की पहचान नहीं हो सकी है  और इलाके में सर्च ऑपरेशन जारी इसी इलाके में एक घर से आतंकियों ने सुरक्ष बालों पर हमला बोला जिसके बाद जवानों ने मोर्चा सम्हाला और दो अन्य आतंकवादियों को मार गिराया

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

pragya singh thakur

    प्रज्ञा सिंह ठाकुर पर एक्शन लीजिए राज्यसभा में कांग्रेस के नेता गुलाम नबी आजाद ने सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर को बचाने के लिए बीजेपी पर हमला किया गुलाम नबी आजाद ने कहा कि एक ओर तो बीजेपी गांधी जी के जन्म की 150वीं जयंती मनाने जा रही है, लेकिन साथ ही जिस शख्स ने सार्वजनिक रूप से बापू के हत्यारे की तारीफ की उसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है ये कैसे संभव है, और कोई इसे कैसे डिफेंड कर सकता है| गुलाम नबी आजाद ने कहा, "इस साल हम बापू का 150वां जन्मदिन मना रहे हैं, ये गौरव की बात है| साथ ही साथ मुझे अफसोस होता है कि जिस साल हम बापू की 150वीं जयंती मना रहे हैं उसी साल सत्ताधारी पार्टी से कुछ ऐसे सांसद चुनकर आ रहे हैं, जो गांधी के हत्यारों की सराहना कर रहे हैं |एक कैंडिडेट ने कहा कि जिस शख्स ने बापू को मारा वो देशभक्त था | उस शब्द को दोहराते हुए मेरी जुबान जल जाएगी बीजेपी का कैंडिडेट ये कहे कि गांधी को मारने वाला देशभक्त था|मेरी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से शिकायत है कि आपको उसी वक्त पार्टी से उसे डिसमिस कर देना चाहिए थाऔर कहना चाहिए था कि ये हमारा कैंडिडेट नहीं है | आजाद मध्य प्रदेश के भोपाल से चुनी गई सांसद साध्वी प्रज्ञा का जिक्र कर रहे थे | प्रज्ञा  ने कांग्रेस के उम्मीदवार दिग्विजय सिंह को मात दी है  लोकसभा चुनाव के दौरान यह विवादित बयान दिया था | इस बयान के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि वह ऐसा बयान देने वालों को कभी मन से माफ नहीं कर पाएंगे गुलाम नबी आजाद ने कहा कि गांधी जी कांग्रेस के अध्यक्ष तो थे, लेकिन साथ ही वे राष्ट्रपिता भी है| राष्ट्रपिता के हत्यारे को देशभक्त कहने वाले शख्स पर कोई कार्रवाई न होइस पर क्या कहा जा सकता है |  गुलाम नबी आजाद ने कहा कि बीजेपी के पास अभी भी मौका है कि वो इस पर 2 अक्टूबर से पहले कार्रवाई करे, नहीं तो ये दाग सत्ताधारी पार्टी पर हमेशा लगा रहेगा |

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

cwc

अगली CWC में होगा राष्ट्रीय अध्यक्ष पर फैसला लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी अपने पद से इस्तीफा देने पर अड़े हुए हैं | वहीं सोमवार को कांग्रेस के आला नेताओं ने सभी समितियों को भंग कर दिया है | संभावना है कि अगले हफ्ते कांग्रेस वर्किंग कमेटी पार्टी अध्यक्ष के पद को लेकर निर्णय करेगी | जानकारी के मुताबिक कांग्रेस वर्किंग कमेटी की अगले हफ्ते होने वाली मीटिंग में राहुल गांधी को पद पर बने रहने के लिए मनाने की आखिरी कोशिश की जाएगी | राहुल गांधी ने 23 मई को लोकसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद 25 मई को हुई कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में अपने पद से हटने की इच्छा जताई थी | हालांकि CWC ने गांधी के इस प्रस्ताव को सिरे से खारिज कर दिया था,लेकिन राहुल गांधी अभी भी अपने निर्णय पर अड़े हुए हैं | वहीं कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा था कि राहुल गांधी कांग्रेस अध्यक्ष थे, हैं और रहेंगे इस बार लोकसभा चुनाव में कांग्रेस 52 सीटों पर सिमट गई थी |  हालांकि साल 2014 में 44 सीटों के मुकाबले पार्टी को 8 सीटें ज्यादा मिली थी, बावजूद इसके कांग्रेस का प्रदर्शन बेहद निराशाजनक रहा  | खुद राहुल गांधी भी अपनी परंपरागत सीट अमेठी से हार गए |  हालांकि वायनाड से उन्हें जीत नसीब हुई  | पार्टी को मिली इतनी बड़ी हार के बाद से ही राहुल गांधी लगातार पद छोड़ने के निर्णय पर अड़े हैं, इससे कांग्रेस आलाकमान की मुश्किलें बढ़ने लगी हैं | सोमवार को कांग्रेस के आला नेताओं ने सभी समितियों को भंग कर दिया है |  संभावना है कि अगले हफ्ते कांग्रेस वर्किंग कमेटी पार्टी अध्यक्ष के पद को लेकर निर्णय करेगी |

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

neet 2019

  मध्यप्रदेश के तीन टॉपर्स की लिस्ट में,     मध्यप्रदेश के तीन विद्यार्थी टॉपर्स की लिस्ट में, राघव दुबे ने पाया 10वां स्थान  बेस्ट 20 फीमेल कैंडिडेट की लिस्ट में मध्यप्रदेश की कीर्ति अग्रवाल ने दूसरा स्थान पाया है। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने बुधवार को नीट 2019 का रिजल्ट घोषित कर दिया। रिजल्ट की मेरिट लिस्ट में मध्यप्रदेश के राघव दुबे ने दसवां स्थान पाया है। इसी तरह टॉप 50 की लिस्ट में प्रदेश की कीर्ति अग्रवाल ने 15वां नंबर और अभिषेक राजपूत ने 35वां स्थान मिला है। मध्यप्रदेश से तीन विद्यार्थियों ने इस नीट में अपना परचम लहरा दिया है। वहीं बेस्ट 20 फीमेल कैंडिडेट की लिस्ट में मध्यप्रदेश की कीर्ति अग्रवाल ने दूसरा स्थान पाया है।2019 में मध्यप्रदेश से 53391 विद्यार्थियों ने परीक्षा दी थी, इसमें से 26773 ने क्वालिफाई किया। नीट 2018 में मध्यप्रदेश से 50.94 प्रतिशत परीक्षार्थी क्वालिफाई हुए थे, लेकिन इस बार 2019 में 50.15 विद्यार्थी ही क्वालिफाई हो पाए।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

pragya thakur

  भोपाल से नवनिर्वाचित सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने प्रधानमंत्री मोदी की जमकर तारीफ की और कहा जनता ने मोदी का  काम देख कर उन्हें दोबारा  प्रधानमंत्री बनाया है| किसान योजना को किसानो के लिए कल्याणकारी बताते हुए कहा सरकार किसानों  के साथ है | साध्वी ने पार्टी के अनुशासन में रहकर  काम करने की बात भी  कही |अक्सर विवादित बयानों से सुर्ख़ियों में रहने वाली  भोपाल  की सांसद  साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ करते हुए कहा की जनता ने विकास को चुना है | प्रधानमंत्री मोदी को जनता ने उनके कल्याणकारी योजनाओं के रहते दुबारा प्रधानमंत्री बनाया है | साध्वी ने कहा मोदी सरकार किसानो के साथ है | प्रधानमंत्री किसानों  के हित में काम कर रहे हैं | इस मौके पर भोपाल सीहोर लोकसभा क्षेत्र के  किसान और बीजेपी विधायक  रामेश्वर शर्मा,विष्णु खत्री  ने सांसद  प्रज्ञा ठाकुर को ज्ञापन दिया   और   किसान आभार  पत्र सौंपा , साध्वी ने गोडसे पर दिए विवादित बयान पर कहा की उन्होंने अनुशासन समिति को  जबाव दे दिया है और वो पार्टी के अनुशासन में रह कर काम करेंगी उन्होंने कहा  पार्टी का अपना एक अनुशासन है मै उसके अंतर्गत काम करूंगी और करना भी चाहिए |

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

malinga

   मलिंगा इस दौरान दो भारतीय गेंदबाजों को पीछे छोड़ वर्ल्ड कप इतिहास के सबसे सफल गेंदबाजों में टॉप फाइव में शामिल हो गए। उन्होंने जहीर खान और जवागल श्रीनाथ के रिकॉर्ड को तोड़ा।मलिंगा के नाम इस मैच से पहले वर्ल्ड कप में 43 विकेट दर्ज थे। उन्होंने अफगानी ओपनर मोहम्मद शहजाद (7) को आउट कर अपने शिकारों की संख्या को 44 किया और वे जहीर और श्रीनाथ की बराबरी पर पहुंचे। मलिंगा ने इसके बाद दौलत जादरान (6) को बोल्ड किया। उन्होंने इसके बाद यॉर्कर पर हामिद हसन (6) को बोल्ड कर अफगानी पारी का अंत किया और अपनी टीम को जीत दिलाई। अब मलिंगा के नाम वर्ल्ड कप में 24 मैचों में 21.58 की औसत से 46 विकेट हो चुके हैं। वे क्रिकेट महाकुंभ के सफल गेंदबाजों में पांचवें क्रम पर पहुंच गए। इस सूची में अब टॉप फाइव में तीन श्रीलंकाई गेंदबाज शामिल है। ऑस्ट्रेलिया के ग्लेन मॅक्ग्राथ 39 मैचों में 71 विकेटों के साथ इस लिस्ट में टॉप पर हैं। भारत, ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और वेस्टइंडीज का कोई गेंदबाज शीर्ष पांच गेंदबाजों में शामिल नहीं है। वर्ल्ड कप के पांच सबसे सफल गेंदबाज 71 विकेट ग्लेन मॅक्ग्राथ (ऑस्ट्रेलिया - 39 मैच) 68 विकेट मुथैया मुरलीधरन (श्रीलंका - 40 मैच) 55 विकेट वसीम अकरम (पाकिस्तान - 38 मैच) 49 विकेट चामिंडा वास (श्रीलंका - 31 मैच) 46 विकेट लसिथ मलिंगा (श्रीलंका - 24 मैच)  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

mansoon

    मानसून के लिए अभी और इंतज़ार करना पड़ेगा ।  4 जून तक मानसून केरल में दस्त देने वाला मानसून अब  7 जून तक केरल में दस्तक दे सकता है। वेदर फोरकास्टे एजेंसी स्काेयमेट के अनुसार दक्षिण-पश्चिम मानसून के लिए इंतजार बढ़ गया है। मानसून की सुस्त  चाल को देखते हुए अनुमान लगाया जा रहा हैं की  देश को मानसून का और इंतजार करना होगा |  'स्काईमेट वेदर' के मुताबिक पिछले 65 सालो में देश में दूसरी बार मानसून परइ मानसून कमजोर पड़ा हैं | स्काईमेट के अनुसार, मौसम विभाग की सभी चार डिवीजनों उत्तर-पश्चिम भारत, मध्य भारत, पूर्व-पूर्वोत्तर भारत और दक्षिणी प्रायद्वीप में क्रमशः 30, 18, 14 और 47 फीसद कम बारिश रिकॉर्ड की गई है।  स्काईमेट के मुताबिक, केरल में एक जून को दस्तक देने वाले दक्षिण-पश्चिम मानसून के 3-4 दिन देर से आने की संभावना थी, लेकिन अब इसके सात जून तक आने की संभावना है। देश में इस साल मानसून के औसत रहने के संभावना जताई गई हैं। हालांकि इससे एशिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था के कृषि उत्पादन और आर्थिक विकास दर पर इसका कोई विपरीत प्रभाव नहीं पड़ेगा। भारतीय मौसम विभाग ने कहा था कि मानसूनी वर्षा का लंबी अवधि का औसत (एलपीए) 96 फीसद रहने की उम्मीद है। सरकारी मौसम विभाग का कहना है कि मानसून सामान्य या औसत रहेगा जोकि 96 फीसद और 104 फीसद है। जून से सितंबर की अवधि में दीर्घावधि औसत 887 मिलीमीटर वर्षा में पांच फीसद कम-ज्यादा का आंशिक फेरबदल हो सकता है। हांलाकि कई स्थानों पर बारिश का असमान वितरण होता है। लगभग प्रतिवर्ष असम, बिहार, आदि क्षेत्रों में बाढ़ की स्थिति निर्मित हो जाती है। ऐसे में बाढ़ को लेकर आपदा प्रबंधन विभाग की सक्रियता बढ़ने की उम्मीद है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

kejriwal metro

  मेट्रो और डीटीसी बसें महिलाओं के लिए फ्री  आम आदमी पार्टी ने  दिल्ली विधानसभा चुनाव को लेकर तैयारियां शुरू कर दी हैं | आप सरकार ने विधानसभा चुनाव को देखते हुए महिलाओं को बड़ा तोहफा दिया है | दिल्ली मेट्रो और डीटीसी की बसों में महिलाएं अब  मुफ्त यात्रा कर सकेंगी ,दिल्ली सरकार के मुखिया अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली मेट्रो और डीटीसी की बसों में महिलाओं को मुफ्त यात्रा का तोहफा दिया है |  वहीं दिल्ली की बसों में कैमरे भी लगाए जाएंगे |  यह कैमरे नवंबर तक लगा दिए जाएंगे  | केजरीवाल ने कहा कि इस योजना को शुरू करने के लिए आने वाले पूरे खर्च को दिल्ली सरकार उठाएगी  | उन्होंने कहा कि महंगा हो चुका मेट्रो का किराया महिलाओं को परेशान कर रहा है  | मगर किसी पर जोर नही डाला जाएगा  जो महिलाएं टिकट ले सकती हैं वे ले सकेंगी  | पूछे जाने पर केजरीवाल ने कहा इस योजना के लिए केंद्र से अनुमति की जरूरत नही होगी | दिल्ली सरकार में परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन के वरिष्ठ अधिकारियों से कहा है कि यह योजना हर हाल में हमें लागू ही करनी है | मेट्रो में महिलाओं की मुफ्त यात्रा पर आने वाले खर्च को दिल्ली सरकार उठाएगी इसके लिए वह डीएमआरसी को भुगतान करेगी  बता दें कि दिल्ली की बसों व मेट्रो में कुल यात्रियों में 33 फीसद महिलाएं होती हैं | इस हिसाब से जो अनुमान लगाया गया है उसके अनुसार, प्रति वर्ष करीब 200 करोड़ रुपये का खर्च सरकार पर आएगा |  मेट्रो के अधिकारियों का कहना है कि बसों की अपेक्षा मेट्रो में महिलाएं अधिक यात्रा करती हैं  |

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

monsoon

  देश के कई राज्‍यों एवं शहरों में अगले तीन से चार दिन तक मौसम बदलने की संभावना है। इस दौरान कई स्‍थानों पर तेज आंधी के साथ बारिश और ओले गिरने की आशंका है। बारिश का इंतजार करने वालों के लिए यह सप्‍ताह राहतभरा होने की उम्मीद है। मौसम विभाग ने चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि रविवार को उत्‍तराखंड के कुछ क्षेत्रों में आसमान से बिजली तक गिर सकती है। चेतावनी दी गई है कि कुछ स्थानों पर बारिश के साथ ओले भी गिर सकते हैं। कुमाऊं के पिथौरागढ़ मौसम खराब होने के संकेत मिले हैं। जानकारी सामने आई है कि रविवार से उत्तराखण्ड में बारिश होगी। रविवार को यहां दिन के तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई है। मिली जानकारी के अनुसार हल्द्वानी-पंतनगर में शुक्रवार का तापमान 39 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया। झारखंड और ओडिशा में बारिश और आंधी के साथ तेज हवाएँ चलेंगी। झारसुगुड़ा, कालाहांडी, कंधमाल, केंद्रपाड़ा, केंदुझार, खोरधा, कोरापुट, नबरंगपुर, नयागढ़, पुरी, रायगढ़, संबलपुर, सुवर्णपुर, सुबरनपुर, सुबरनपुर आदि क्षेत्र प्रभावित हो सकते हैं। राज्य के अल्मोड़ा, चम्पावत, बागेश्वर, नैनीताल, मुक्तेश्वर में हल्की से मध्यम बारिश गरज-चमक के साथ हो सकती है। मौसम बदलने के दौरान करीब 50-60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल सकती है। दूसरी ओर उत्तरप्रदेश के कुछ क्षेत्रों में भी बारिश होने की संभावना है। पूर्वानुमान अगले दो-तीन दिन पूर्वी उप्र में आंधी के साथ बारिश की संभावना है। राजधानी लखनऊ में रविवार सुबह हल्की बारिश हुई। मध्‍यप्रदेश और छत्‍तीसगढ़ में अगले 4 दिनों तक बारिश की संभावना है। रीवा, सीधी, शहडोल, नौपुरा, जगदलपुर, दुर्ग, रायपुर, कोरिया आदि स्‍थानों पर अगले तीन से चार दिनों के दौरान अलग-अलग समय पर तेज बारिश और आंधी आ सकती है। हरदोई, सीतापुर, लखनऊ, बाराबंकी जिलों और आसपास के क्षेत्रों में अगले तीन घंटों के दौरान ओलावृष्टि और हल्की बारिश के साथ ओलावृष्टि और आंधी के साथ बारिश होने की संभावना है। बारिश और बादलों की मौजूदगी से क्षेत्र का तापमान कम हो गया है। इससे लोगों ने राहत महसूस की है। विभिन्न क्षेत्रों में बारिश के हालात बनने के पहले, अधिकतम तापमान 37 डिग्री सेल्सियस से 44 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। आगरा, फीरोजाबाद, मैनपुरी, एटा और कासगंज में अधिकतम पारा 45 और न्यूनतम 29 डिग्री के आसपास रहा। तो दूसरी ओर हल्द्वानी में 37.8, नैनीताल में 27.7, मुक्तेश्वर में 29.3 डिग्री सेल्सियस रहा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

rajasthan

जयपुर। करारी हार की वजह से बड़ी गेहलोत सरकार की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है। हार के बाद सरकार और सीएम पर लगातार निशाना साधा जा रहा है। अब एक विधायक अपनी ही सरकार के खिलाफ आमरण अनशन पर बैठ गए हैं। टोंक जिले में एक ट्रैक्टर चालक की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत के मामले को लेकर कांग्रेस के विधायक एवं पूर्व पुलिस महानिदेशक हरीश मीणा तीन दिन से धरने पर बैठे हुए थे, लेकिन सुनवाई न होने पर उन्होंने आमरण अनशन शुरु कर दिया। उनके साथ एक अन्य विधायक गोपीचंद मीणा भी आमरण अनशन पर बैठे हैं। भाजपा सांसद सुखबीर सिह जौनपुरिया और किरोड़ी लाल मीणा भी शनिवार को धरना स्थल पर पहुंचे । टोंक जिले के उनियारा उपखंड के बोसरिया गांव के पास तीन दिन पहले ट्रैक्टर चालक भजनलाल मीणा की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। आरोप है कि उनियारा थाने के पुलिसकर्मियों द्वारा की गई मारपीट से भजनलाल की मौत हुई है। आरोपित पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई करने और पांच सूत्रीय मांगों को लेकर क्षेत्रीय कांग्रेस विधायक हरीश मीणा के नेतृत्व में सैंकड़ों लोगों ने नगरफोर्ट पीएचसी के बाहर शव के साथ धरना शुरू कर दिया था । राज्य के पूर्व पुलिस महानिदेशक रहे विधायक हरीश मीणा ने पुलिस पर मामले को रफा-दफा करने का आरोप लगाया है । मीणा के नेतृत्व में रैली निकालकर लोगों ने जिला कलेक्टर आरसी ढेनवाल और पुलिस अधीक्षक चूनाराम जाट के खिलाफ नारेबाजी की और उनका पुतला फूंका । लोगों में इस बात को लेकर आक्रोश है कि दोनों ही अधिकारी मामले को गंभीरता से नहीं ले रहे और सरकार को गलत रिपोर्ट भेज रहे। उधर, आमरण अनशन शुरू होने से आंदोलन के और उग्र होने की आशंका है। धरने और आंदोलन के मद्देनजर पूरा नगरफोर्ट कस्बा छावनी में तब्दील कर दिया गया है ।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

modi

नई दिल्ली। मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल की शुरुआत हो चुकी है। शुरुआती मंत्रिमंडल में 57 मंत्री बनाए गए हैं। इन मंत्रियों में से ज्यादातर मंत्री करोड़पति हैं। ये खुलासा एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (ADR) की रिपोर्ट में हुआ है। ADR रिपोर्ट के मुताबिक 57 मंत्रियों में से 51 मंत्री करोड़पति हैं। ये मंत्रिमंडल का नब्बे फीसदी से ज्यादा हैं। एक मीडिया रिपोर्ट में ADR के हवाले से बताया गया है कि हर मंत्री के पास औसतन 14.72 करोड़ की संपत्ति है। रिपोर्ट में ये भी कहा गया है कि 57 में से 22 मंत्रियों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं जो मंत्रिमंडल का 39 फीसदी है। इनमें से 16 मंत्रियों(मंत्रिमंडल का लगभग 29 प्रतिशत) पर हत्या का प्रयास, सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ना, आचार संहिता उल्लंघन जैसे गंभीर अपराध दर्ज हैं। ADR ने 26 मई को जारी रिपोर्ट में कहा था कि नई लोकसभा के 542 सांसदों में से 475 सदस्य करोड़पति हैं। इस सूची में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के बेटे नकुलनाथ 660 करोड़ रुपए की संपत्ति के साथ टॉप पर हैं। उन्होंने छिंदवाड़ा सीट से चुनाव लड़ा और जीता है। शीर्ष तीन सांसदों में कांग्रेस के सदस्य ही हैं। एडीआर ने 539 नए सांसदों के हलफनामों का विश्लेषण करने के बाद ये जानकारी दी थी। औसत संपत्ति की अगर बात करें, तो लोकसभा चुनाव में हर विजेता सांसद की संपत्ति औसतन 20.93 करोड़ रुपए है। नई लोकसभा में 266 सदस्य हैं जिनकी संपत्ति 5 करोड़ या उससे अधिक है। बता दें कि साल 2009 में लोकसभा में चुने गए 315 प्रत्याशी करोड़पति थे, 2014 में यह संख्या 443 पहुंच गई थी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

yog

    केंद्र ने इस साल अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर राष्ट्रीय कार्यक्रम के लिए पांच शहरों को चुना है। नरेंद्र मोदी के दूसरे कार्यकाल के लिए प्रधानमंत्री बनने के बाद सरकार का यह पहला विशाल सार्वजनिक आयोजन होगा। इसके लिए दिल्ली, शिमला, मैसूर, अहमदाबाद और रांची को चुना है। शहरों के नाम प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) को भेजे जा चुके हैं। PMO, 21 जून को आयोजित होने वाले अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मुख्य समारोह स्थल का चुनाव करेगा। आयुष मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, 'हमने तैयारी शुरू कर दी है और कार्यक्रम बड़े स्तर पर आयोजित किया जाएगा।' अगर राष्ट्रीय राजधानी को मुख्य स्थल चुना जाता है तो यहां दूसरी बार कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। दिल्ली में 2015 में योग दिवस पर मुख्य कार्यक्रम आयोजित किया गया था। कार्यक्रम की तैयारी के सिलसिले में दिल्ली में मोरारजी देसाई राष्ट्रीय योग संस्थान द्वारा दो दिवसीय योग महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है। यह महोत्सव शनिवार से शुरू हुआ है। इसमें योग शिक्षक, अनुभवी और अन्य सहित करीब 10,000 लोग भाग लेंगे। अधिकारी ने कहा कि कार्यक्रम करने का लक्ष्य योग का माहौल तैयार करना है और लोगों को 21 जून के कार्यक्रम के बारे में जागरूक बनाना है। संयुक्त राष्ट्र ने 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के रूप में घोषित किया था। 2014 में प्रधानमंत्री मोदी ने इस तारीख को योग के वैश्विक आयोजन दिवस के रूप में मंजूरी देने का आह्वान किया था। भारत में 5000 साल से भी पहले योग शुरू हो चुका था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

iic cup

कार्डिफ। मार्टिन गप्टिल (73 नाबाद) और कोलिन मुनरो (58 नाबाद) के बीच पहले विकेट के लिए हुई 137 रनों की अविजित भागीदारी से न्यूजीलैंड ने शनिवार को क्रिकेट वर्ल्ड कप में श्रीलंका पर 10 विकेट से धमाकेदार जीत दर्ज की। न्यूजीलैंड ने 137 रनों के टारगेट को 16.1 ओवरों में हासिल किया। इससे पहले दिमुथ करुणारत्ने की नाबाद फिफ्टी (52) के बावजूद श्रीलंका की पारी 29.2 ओवरों में 136 रनों पर सिमटी। श्रीलंका वर्ल्ड कप में पहली बार 10 विकेट से हारा। मार्टिन गप्टिल और कोलिन मुनरो ने न्यूजीलैंड को आक्रामक शुरुआत दिलाई। उन्होंने श्रीलंकाई गेंदबाजों के खिलाफ खुलकर स्ट्रोक्स खेले। गप्टिल ने उडाना की गेंद पर छक्का लगाकर फिफ्टी पूरी की। वे 39 गेंदों में 6 चौकों और 1 छक्के की मदद से फिफ्टी तक पहुंचे। मुनरो ने थिसारा परेरा की गेंद पर 2 रन लेकर फिफ्टी पूरी की। वे 41 गेंदों में 5 चौकों और 1 छक्के की मदद से फिफ्टी तक पहुंचे। गप्टिल 51 गेंदों में 8 चौकों और 2 छक्कों की मदद से 73 और मुनरो 47 गेंदों में 6 चौकों और 1 छक्के की मदद से 58 रन बनाकर नाबाद रहे। टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाजी कर रहे श्रीलंका को मैट हैनरी ने पहले ही ओवर में झटका दिया जब उन्होंने दूसरी गेंद पर लाहिरू थिरिमाने (4) को एलबीडब्ल्यू किया। अंपायर ने थिरिमाने को आउट नहीं दिया था लेकिन न्यूजीलैंड ने रिव्यू लिया और फैसला उनके पक्ष में रहा। कुशल परेरा (29) अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे लेकिन वे हैनरी की गेंद पर बड़ा शॉट खेलने के प्रयास में मिडऑन पर कोलिन डी ग्रैंडहोम को कैच थमा बैठे। हैनरी ने अगली गेंद पर कुशल मेंडिस को स्लिप में मार्टिन गप्टिल के हाथों झिलवाया और श्रीलंका 46 रनों पर तीसरा विकेट खोकर संघर्ष करता दिखा। धनंजय डीसिल्वा ने अभी 4 रन ही बनाए थे कि वे लोकी फर्ग्यूसन की गेंद पर एलबीडब्ल्यू हो गए। डीसिल्वा ने कप्तान दिमुथ करुणारत्ने से बात की लेकिन उन्होंने कोई रिव्यू नहीं लिया। अब टीम को एंजेलो मैथ्यूज से उम्मीदें थी लेकिन वे बगैर खाता खोले कोलिन डी ग्रैंडहोम के शिकार बने। वे विकेटकीपर टॉम लाथम को कैच थमाकर पैवेलियन लौटे। श्रीलंका उस समय गहरे संकट में घिर गया जब जीवन मेंडिस (1) ने फर्ग्यूसन की गेंद पर गली में जिमी नीशम को कैच थमा दिया। श्रीलंका ने 60 रनों पर छठा विकेट गंवाया। इसके बाद कप्तान करुणारत्ने को अनुभवी थिसारा परेरा का साथ मिला और इन्होंने पारी को संभालने का प्रयास किया। इनके बीच सातवें विकेट के लिए 52 रनों की भागीदारी हुई और इन्होंने स्कोर को सम्मानजनक बनाया। सेंटनर ने थिसारा (27) को लांग ऑन पर ट्रेंट बोल्ट को कैछ थमाया। उडाना बगैर खाता खोले जिमी नीशम के शिकार बने। सुरंगा लकमल 7 रन बनाकर बोल्ट के शिकार बने। करुणारत्ने ने बोल्ट की गेंद पर 2 रन बनाकर फिफ्टी पूरी की। उन्होंने 82 गेंदों में 4 चौकों की मदद से फिफ्टी पूरी की। न्यूजीलैंड ने टिम साउदी को प्लेइंग इलेवन में शामिल नहीं किया। उन्हें चोट लगी हुई है और उन्होंने शुक्रवार को अभ्यास नहीं किया था। विकेटकीपर टॉम लाथम के फिट होने से टॉम ब्लंडेल को डेब्यू करने का मौका नहीं मिला। इसके अलावा ईश सोढ़ी को भी प्लेइंग इलेवन में जगह नहीं मिली। श्रीलंका ने जैफ्री वांडरसे, मिलिंडा सिरिवर्दाना, नुवान प्रदीप और अविष्का फर्नांडो को बाहर रखा। न्यूजीलैंड ने अभ्यास मैच में शानदार प्रदर्शन कर भारत को हराया था, वैसे उसके इसके बाद वेस्टइंडीज के हाथों शिकस्त मिली थी। कीवी टीम भारत के खिलाफ किए प्रदर्शन को यहां दोहराना चाहेगी। केन विलियम्सन की न्यूजीलैंड टीम के लिए राहत भरी खबर आई जब प्रमुख विकेटकीपर टॉम लाथम ने उंगली की चोट से उबरकर प्रैक्टिस सेशन में विकेटकीपिंग की। श्रीलंका इस मैच में लाहिरू थिरिमाने को कप्तान दिमुथ करुणारत्ने के साथ पारी की शुरुआत के लिए उतारेगा। थिरिमाने अभ्यास मैचो में निचले क्रम पर उतरे थे। अविष्का फर्नांडो इस मैच में नहीं खेलेंगे। कुशल परेरा विकेटकीपिंग का दायित्व संभालेंगे और मध्यक्रम में बल्लेबाजी करेंगे। धनंजय डीसिल्वा और जीवन मेंडिस को खेलने का मौका मिलेगा। टीमें - श्रीलंका : दिमुथ करुणारत्ने (कप्तान), लाहिरू थिरिमाने, कुशल मेंडिस, कुशल परेरा, एंजेलो मैथ्यूज, धनंजय डीसिल्वा, थिसारा परेरा, जीवन मेंडिस, इसुरु उडाना, लसिथ मलिंगा, सुरंगा लकमल। न्यूजीलैंड : मार्टिन गप्टिल, कोलिन मुनरो, केन विलियम्सन (कप्तान), रॉस टेलर, टॉम लाथम, जिमी नीशम, कोलिन डी ग्रैंडहोम, मिचेल सेंटनर, लोकी फर्ग्यूसन, ट्रेंट बोल्ट, मैट हैनरी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

modi patana

  पटना के गाँधी मैदान पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर हमला बोला और महागठबंधन को भी निशाने पर लिया। पीएम मोदी नेकहा  वोट लेकर भूल जाने वालों को अब देश पहचान गया है। परिवार की राजनीति करने वालों के पास मोदी को गाली देने के अलावा कोई काम नहीं बचा है। विपक्ष में मोदी को गाली देने का कम्पटीशन चल रहा है। ये वो लोग हैं जिन्हे सेना पर भरोसा नहीं हैं ये सेना की सर्जिकल स्ट्राइक पर सबूत मांगते है।   पीएम मोदी ने कहा  मैं एक बार फिर आप लोगों के बड़ी संख्या में यहां आने के लिए धन्यवाद देता हूं। भारत माता की जय।पीएम मोदी: यह नियत-नियत का फर्क है। मैं देश को आगे बढ़ाने में लगा हूं और वो मुझे विकास के रास्ते से हटाना चाहते हैं।  वो कहते हैं आओ मिलकर मोदी को खत्म करें, मैं कहता हूं आओ मिलकर आतंकवाद को खत्म करें। वे कहते हैं आओं मिलकर मोदी को खत्म करें, मै कहता हूं सब मिलकर गरीबी, भ्रष्टाचार को खत्म करें।   पीएम ने कहा  क्राउन प्रिंस ने हमारे आग्रह पर भारतीय कैदियों के साथ सकारात्मक रुख अपनाया और सैकड़ों कैदियों को रिहा किया।  हमारे आग्रह पर क्राउन प्रिंस ने हज को कोटा बढ़ाया। ऐसा सिर्फ दुनिया में भारत के साथ ही हुआ है।  कांग्रेस ने लंबे समय तक देश पर राज किया, लेकिन पहले ऐसा क्यों नही हुआ, इसका जवाब कांग्रेस को देना चाहिए।   अब भारत अपने वीर जवानों के बलिदान पर चुप नहीं बैठता है चुन-चुनकर बदला लेता है। इस्लामिक देशों की कांफ्रेंस में भारत को बुलवाया गया और उसकी बात को सुना गया।  पीएम मोदी ने कहा  उनकी बातों पर पाकिस्तान में लोगों के चेहरे खिल उठे हैं। क्या पाकिस्तान में ताली बजे ऐसा पाप करना चाहिए क्या? हमारे वीर जवानों के पराक्रम पर संदेह कर रहे हैं। पहले सर्जिकल स्ट्राइक का सबूत मांग रहे थे अब फिर से वही काम वह कर रहे हैं। कांग्रेस और उसके सहयोगी दलों के नेता ऐसी बाते कर रहे हैं जिससे देश के दुश्मनों को फायदा हो रहा है।   महामिलावट के घटक अपने लिए जीते हैं उनको देश की परवाह नहीं है। जब देश की सेना आतंक को कुचलने में जुटी है ऐसे समय में देस के अंदर कुछ लोग देश की आवाज को सेना के हौंसलों को पस्त करने में लगे हुए हैं।   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

digvijay singh

इंदौर में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारतीय वायु सेना द्वारा की गई एयर स्ट्राइक का सबूत मांगा था। दिग्विजय को इस मामले में महबूबा मुफ्ती का साथ मिला है। मेहबूबा ने भी यही मांग दोहराई है। इस बीच दिग्विजय सिंह द्वारा पाकिस्तान में भारतीय वायु सेना द्वारा की गई एयर स्ट्राइक का सबूत मांगने पर बवाल खड़ा हो गया। भाजपा नेताओं ने इसका विरोध किया है । दिग्विजय सिंह ने कहा था कि हमें भी अमेरिका द्वारा ओसामा बिन लादेन के खिलाफ किए गए ऑपरेशन की तरह सबूत देना चाहिए। इस दौरान उन्होंने भारतीय पायलट को लौटाने पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की तारीफ भी की थी। इस बारे में दिग्विजय के बेटे और मध्यप्रदेश के मंत्री जयवर्धन सिंह ने पिता के बयान को सही बताया है। जयवर्धन ने कहा कि हम सेना के साथ खड़े हैं, पिता ने पायलट को लौटाने पर इमरान खान को धन्यवाद दिया है। उन्होंने यह भी कहा था कि पाकिस्तान हाफिज सईद और अजहर मसूद को भी भारत को सौप दे। इस बीच, पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में वायुसेना की स्ट्राइक और दुश्मन देश से सुरक्षित लौट आए वायुसेना के पायलट अभिनंदर वर्तमान को लेकर भी देश में राजनीति शुरू हो गई है। कांग्रेस के ही वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद को इस बात का फक्र है कि अभिनंदन यूपीए शासन में फाइटर पायलट बने। खुर्शीद ने अपने ट्वीट में लिखा, ''दुश्‍मन की आक्रामकता के सामने भारतीय प्रतिरोध के चेहरे विंग कमांडर अभिनंदन को बहुत-बहुत बधाई। संकट के समय उन्‍होंने शानदार संतुलन और आत्‍मविश्‍वास दिखाया। हमें इस बात का गर्व है कि वे 2004 में एयरफोर्स में शामिल हुए और संयुक्‍त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) के शासनकाल के दौरान एक मैच्‍योर फाइटर पायलट बने।'      

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

modi

अहमदाबाद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को वाइब्रेंट गुजरात ग्लोबल समिट का उद्घाटन किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि भारत स्टार्टअप के मामले में दुनिया का सबसे बड़े ईकोसिस्टम है। भारत के साथ व्यापार करना श्रेष्ठ अवसर है क्योंकि हम दुनिया की टॉप 10 एफडीआई डेस्टिनेशंस में शामिल हैं। पीएम बोले कि दुनिया के बड़े आर्थिक संस्थानों विश्व बैंक और आईएमएफ ने भारत की अर्थव्यवस्था में भरोसा जताया है। हमारा ध्यान उन बाधाओं को दूर करने में है जो हमें हमारी सर्वोच्च क्षमता तक जाने से रोक रहे हैं। पीएम मोदी ने कहा कि हमारी सरकार की औसत जीडीपी वृद्धि दर 7.3% रहीं है। जबकि वर्ष 1991 के बीच किसी भी सरकार की ऐसी वृद्धि नहीं हुई है। वहीं, महंगाई की औसत दर भी 4.6 फीसद है, जो 1991 के बाद किसी भी भारतीय सरकार के दौरान सबसे कम है। मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने गुजरात के विकास में भागीदार होने को वाईब्रेंट गुजरात 2019 में आए देश व दुनिया के उद्यमियों का स्वागत करते हुए कहा कि गुजरात जैसे इन्वेस्टमेंट फ्रेंडली राज्य में निवेश के लिए विश्वास जताने के लिए धन्यवाद। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी के नए भारत के निर्माण के संकल्प के प्रति आभार जताया। रिलायंस समूह के अध्यक्ष मुकेश अंबानी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सन ऑफ गुजरात, प्राइड ऑफ गुजरात बताया। उन्होंने कहा गौतम अदाणी की तरह मुझे भी राज्य के सभी 9 वाईब्रेंट गुजरात निवेशक सम्मेलन में शामिल होने का सौभाग्य मिला है। अंबानी ने कहा कि मोदी विजनरी लीडर, उनके नेतृत्व में भारत तेजी से विकास करने वाली अर्थव्यवस्था बनी है। गुजरात रिलायंस की जन्मभूमि है, दुनिया में हमारे लिए भारत पहले और भारत में गुजरात पहले के संकल्प के साथ रिलायंस काम कर रहा है। बता दें कि इससे पहले पीएम मोदी ने उज्बेकिस्तान के राष्ट्रपति शावत मिर्ज़ियोयेव से मुलाकात की। बता दें कि, तीन दिनों तक चलने वाले निवेशकों का यह कार्यक्रम राजधानी गांधीनगर के महात्मा मंदिर में आयोजित हो रहा है। इसमें पांच देशों के राष्ट्राध्यक्ष और 30,000 राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय प्रतिनिधि हिस्सा लेंगे। कार्यक्रम में हिस्सा लेने वाले पांच देशों में उज्बेकिस्तान, रवांडा, डेनमार्क, चेक रिपब्लिक और माल्टा शामिल है। पीएम मोदी ने समित से इतर उज्बेकिस्तान के राष्ट्रपति शवकत मिर्जियोयेव के साथ गांधीनगर में द्वीपक्षीय वार्ता की। दोनों देशों के बीच दो एमओयू पर हस्ताक्षर हुए। इससे पहले पीएम ने माल्टा के प्रधानमंत्री जोसेफ मस्कट के साथ भी मुलाकात की थी। तीन दिनों के इस कार्यक्रम में वैश्विक फंड प्रमुखों के साथ राउंड-टेबल बातचीत होगी। बता दें कि, आज दूसरा दिन है। इससे पहले गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस कार्यक्रम का उद्घाटन किया था। आज वह दुनिया के विभिन्न नेता और हजारों प्रतिनिधियों की मौजूदगी में व्यापार बैठक का उद्घाटन करेंगे। इस मौके पर मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने कहा कि, कार्यक्रम का समापन उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू की मौजूदगी में होगा।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

aditynath

  गरीब सवर्णों को 10 फीसदी आरक्षण देने का विधेयक तो मंजूर हो चुका है, लेकिन ये राज्य सरकारों पर निर्भर है कि वे इसे अपने राज्यों में किस तरह से लागू करती हैं। हालांकि उत्तर प्रदेश में इस विधेयक के लागू होने का रास्ता पूरी तरह से अब साफ हो गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में शुक्रवार को हुई कैबिनेट बैठक में गरीब सवर्ण को दस फीसदी आरक्षण के प्रस्ताव को मंजूरी मिल गई है। लोक भवन में केंद्र सरकार के इस प्रस्ताव पर आज योगी आदित्यनाथ के मंत्रिमंडल ने उत्तर प्रदेश में भी लागू करने को हरी झंडी प्रदान कर दी है। यूपी में सरकारी नौकरियों और शिक्षण संस्थानों में 14 जनवरी से 10 फीसदी गरीब सवर्ण आरक्षण लागू होगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में लोक भवन में संपन्न हुई कैबिनेट की बैठक में 14 महत्वपूर्ण फ़ैसले किए गए। मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने आज कैबिनेट की बैठक बुलाई। इस बैठकमें कई महत्वपूर्ण निर्णयों को भी मंजूरी दी गई। इसमें गरीब सवर्णों के लिए 10 फीसदी आरक्षण लागू करने के प्रस्ताव पर मुहर लगी। इसके साथ एक जिला एक उत्पाद योजना, आबकारी विभाग, सहित 14 महत्वपूर्ण प्रस्तावों पर निर्णय लिया गया। बैठक में तय किया गया कि मंत्रियों को एक करोड़ रूपये तक की परियोजना संस्तुत करने के लिए कैबिनेट के अनुमोदन की ज़रूरत नहीं होगी। सवर्णों के लिए आरक्षण लागू करने वाला उत्तर प्रदेश चौथा राज्य बन गया है।समाज कल्याण विभाग ने सरकारी नौकरियों व सभी तरह की शिक्षण संस्थाओं (अल्पसंख्यक छोड़कर) में प्रवेश में गरीबों को आरक्षण देने का प्रस्ताव तैयार कर लिया है।इसके लिए अध्यादेश के मसौदे को भी मंजूरी दी जाएगी। इसके तहत गरीब सवर्णों को शिक्षा व नौकरियों में 10 फीसदी आरक्षण दिया जाएगा। उत्तर प्रदेश के अधिकारियों ने केंद्र सरकार और गुजरात सरकार के आरक्षण फार्मूले का अध्ययन किया है। अध्ययन के बाद तय किया है कि केंद्र सरकार के आरक्षण फार्मूले को यहां लागू करने के लिए अध्यादेश लाया जाए। केंद्र की नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार के गरीब सवर्णों को आरक्षण देने के फैसले के बाद गुजरात, झारखंड और उत्तराखंड सरकार ने भी अपने-अपने राज्य में लागू कर दिया। केंद्र सरकार के फैसले पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद स्वीकृति की मुहर लगा चुके हैं। उसके सरकार ने गजट नोटिफिकेशन भी कर दिया। केंद्र सरकार के संस्थानों में शिक्षा व नौकरियों में गरीब सवर्णों को 10 फीसदी आरक्षण मिलेगा।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

mamta

  आने वाले लोकसभा चुनाव में भाजपा को कड़ी टक्कर देने के लिए ममता बनर्जी बीजेपी विरोधी दलों को साथ लाने का काम कर रही हैं।पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी लोकसभा चुनाव 2019 को लेकर मैदान में उतर चुकी हैं। इसके लिए अब ममता 19 जनवरी को बड़ी रैली का आयोजन करने जा रही है। जहां भाजपा विरोधी पार्टियों को रैली में आमंत्रित किया गया है। इस रैली को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने समर्थन दे दिया है। राहुल गांधी ने चिट्ठी लिखते हुए कहा है कि पूरा विपक्ष एकजुट है। मैं ममता दीदी को एकता और उम्मीद के इस प्रदर्शन को समर्थन देते हैं जो एक देश का संदेश देगा। तृणमूल कांग्रेस ने दावा किया है कि आज़ादी के बाद ये विपक्ष की सबसे बड़ी रैली होगी। समाजवादी पार्टी, बहुजन समाजवादी पार्टी, डीएमके, जनता दल यूनाइटेड (सेक्युलर ) , कांग्रेस तेलगुदेशम पार्टी के सदस्यों के रैली में शामिल होने की खबर है। आने वाले लोकसभा चुनाव में भाजपा को कड़ी टक्कर देने के लिए ममता बनर्जी बीजेपी विरोधी दलों को साथ लाने का काम कर रही हैं। 19 जनवरी को कोलकाता के सबसे बड़े मैदान ब्रिगेड परेड ग्राउंड में पार्टी की महारैली होने वाली है। इस रैली में भाजपा विरोधी गुटों को आमंत्रित किया गया है। इस रैली में विपक्षी नेताओं में नेशनल कॉन्फ्रेंस के शीर्ष नेता फारूक अब्दुल्ला, उमर अब्दुल्ला, डीएमके अध्यक्ष एमके स्टालिन, दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) सुप्रीमो शरद पवार, उत्तर प्रदेश के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने सहमति दे दी है। रिपोर्ट्स के मुताबिक इस रैली में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी तथा बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती खुद नहीं शामिल होकर अपना प्रतिनिधि भेजेंगे। बसपा से सतीश चंद्र मिश्रा,कांग्रेस से मल्लिकार्जुन खड़गे शामिल होंगे।साथ ही सीएम ममता की इस रैली के माध्यम से विपक्षी एकता का भी प्रदर्शन किया जाएगा। शहर के मध्य में स्थित ब्रिगेड परेड में आयोजित होने वाली रैली में सभी प्रमुख विपक्षी दलों के नेताओं को आमंत्रित किया गया है। विशाल रैली में मुख्यमंत्रियों अरविंद केजरीवाल, एच कुमारस्वामी, एन चंद्रबाबू नायडू के अलावा पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा, पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला और उमर अब्दुल्ला तथा राजद नेता तेजस्वी यादव, द्रमुक के एम के स्टालिन, असंतुष्ट भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा के अलावा अन्य नेताओं के शामिल होने की संभावना है। ममता बनर्जी के साथ मंच पर समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव, बसपा महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा, राकांपा नेता शरद पवार, रालोद नेता चौधरी अजीत सिंह, पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा और अरुण शौरी, पाटीदार नेता हार्दिक पटेल, दलित नेता जिग्नेश मेवाणी और झारखंड विकास मोर्चा के प्रमुख बाबूलाल मरांडी भी मौजूद रहेंगे।लोकसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खडगे भी कांग्रेस की ओर से रैली में शामिल होंगे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 यूपी में NIA के 16 जगह छापेमारी , कई गिरफ्तार

    अमरोहा में आतंकी जाकिर मूसा के छिपे होने की सूचना और आईएस के नए मॉड्यूल की सूचना के बाद एनआई ने यूपी समेत 16 जगहों पर छापा मारा है। इस छापे में टीमों ने अब तक 6 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। दिल्ली पुलिस के साथ एनआईए, हरियाणा व पंजाब पुलिस तथा एटीएस की टीम छापामारी कर रही है। एनआई व एटीएस की टीम द्वारा अमरोहा के मुहल्ला मुल्लाना में पकड़े गए संदिग्ध आतंकी मुफ्ती सुहैल के घर से बरामद सामान को पुलिस साथ ले गई। खबरों के अनुसार नोगावा सादात के गांव सैदपुर इम्मा निवासी तीन सगे भाइयों के आतंकी संगठन से जुड़ा होने के शक में हिरासत में लिया गया है। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल व एटीएस ने उन्हें घर में नजरबंद कर लिया है तथा पूछताछ जारी है। जिले में अलर्ट जारी कर दिया गया है। मामला नोगावा सादात के गांव सैदपुर इम्मा से जुड़ा है। यहां पर शहीद अहमद का परिवार रहता है। वह नगर कोतवाली क्षेत्र में धनोरा अड्डे पर वेल्डिंग की दुकान करता है तथा पास के ही मुहल्ला इस्लाम नगर में भी उसका मकान है। इस दौरान एटीएस व दिल्ली पुलिस ने मुहल्ला मुल्लाना जामा मस्जिद निवासी मुफ्ती सुहैल को पकड़ा है और उनकी निशानदेही पर घर से टाइमर, पिस्टल, गोला बारूद बरामद किए जाने की चर्चा। मुहल्ला पचडरा से सिराज लस्सी वाले के भतीजे इरशाद को भी हिरासत में लिया। शहर में पुलिस का पहरा बढ़ाया गया है। बुधवार सुबह दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल व एटीएस की टीम एसपी डॉ विपिन टाडा से मिली तथा सैदपुर इम्मा में शहीद अहमद के घर छापा मारने के लिए स्थानीय पुलिस का सहयोग लिया। सबसे पहले टीम ने नगर कोतवाली क्षेत्र के मुहल्ला शाही चबूतरा, जामा मस्जिद व इस्लाम नगर में छापा मारा। बताया जा रहा है कि यहां से टीम किसी को साथ नही ले गई। उसके बाद गांव सैदपुर इम्मा में शहीद के घर छापा मार दिया। लगभग 20-24 गाड़ियां गांव पहुची तो हड़कंप मच गया। फौरन ही शहीद के घर की घेराबंदी कर ली गई तथा उसके परिजनों को घर मे बंद कर लिया। आसपास के घरों पर भी पहरा बैठा दिया गया। शहीद के तीन बेटों अनीस, इदरीस व नफीस को हिरासत में लेकर पूछताछ जारी है। बताया जा रहा है कि तीन माह पहले डीएनएस कालेज के छात्रों द्वारा आतंकी जमशेद को पिस्टल बेचने वाले प्रकरण के बाद से इन तीनो भाइयों पर टीम की नजर थी। तीनो भाई वैल्डिंग का काम करने के साथ ही गांव में मजदूरी भी करते हैं। साथ ही जाकिर मूसा से भी इस मामले को जोड़कर देखा जा रहा है। अभी स्थानीय पुलिस कुछ भी बताने से इनकार कर रही है। परिजनों से पूछताछ जारी है। एएसपी बृजेश सिंह ने बताया कि नगर क्षेत्र व सैदपुर इम्मा में छापेमारी हुई है। अभी कोई ठोस जानकारी नही मिली है। बताया कि जिले में अलर्ट घोषित कर दिया गया है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

ashok gehlot

  राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार पिछली वसुंधरा राजे सरकार के अंतिम छह माह के फैसलों की समीक्षा कराएगी। एक तरफ जहां वसुंधरा राजे सरकार की कथित अनियमितताओं जांच के लिए आयोग गठित करने पर विचार किया जा रहा है। वहीं दूसरी तरफ मंत्रियों की समिति वसुंधरा सरकार के कार्यकाल के अंतिम दौर में हुए फैसलों की समीक्षा करेगी। आयोग हाईकोर्ट के सेवानिवृत जज की अध्यक्षता में बनेगा। इस बारे में अधिकारिक आदेश अगले कुछ दिनों में जारी कर दिए जाएंगे। चुनाव के दौरान मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने वसुंधरा सरकार के कार्यकाल में हुई अनियमितताओं की जांच कराने की बात कही थी। अब सत्ता संभालते ही गहलोत और पायलट के बीच वसुंधरा सरकार के दौरान हुए खान,जलदाय,चिकित्सा और आईटी विभागों में हुई अनियमितताओं की जांच कराने को लेकर सहमति बनी है। अशोक गहलोत ने अपने पिछले कार्यकाल में भी वसुंधरा राजे के साल 2003 से 2008 तक सीएम रहते हुए अनियमितताओं की जांच के लिए एन.एन.माथुर आयोग गठित किया था। हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने भाजपा की याचिका पर इस आयोग के गठन को रदद कर दिया था । लेकिन इस बार फिर वसुंधरा राजे सरकार के 2013 से 2018 तक के कार्यकाल में हुई कथित अनियमितताओं की जांच कराने को लेकर आयोग बनाने की तैयारी की जा रही है । उधर वसुंधरा राजे सरकार द्वारा कार्यकाल के अंतिम छह माह में लिए गए निर्णयों की समीक्षा के लिए मंत्रियों की उच्च स्तरीय समिति गठित करने का भी निर्णय लिया गया है । इस बारे में अधिकारिक घोषणा अगले कुछ दिनों में हो जाएगी । उल्लेखनीय है कि विपक्ष में रहते हुए गहलोत ने कई बार अफसरों को चेतावनी दी थी कि यदि वे वसुंधरा राजे के कहने पर गलत काम करेंगे तो कांग्रेस के सत्ता में आने पर जांच कराई जाएगी और उन्हे इसका अंजाम भुगतना होगा । सरकार के एक विश्वस्त सूत्र के अनुसार गहलोत सरकार के निशाने पर भाजपा सरकार में मंत्री रहे नेता और कुछ अधिकारी है। इन लोगों पर कई बार भ्रष्टाचार के आरोप लग चुके है । दो आईएएस अफसरों को जेल भी जाना पड़ा है। अब गहलोत सरकार ने इन अफसरों और नेताओं के बारे में पूरी रिपोर्ट तैयार कराई है । यह रिपोर्ट एक सेवािनवृत आईएएस अधिकारी और सीएमओ में तैनात एक अधिकारी ने तैयार की है।   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

दिवाली में सिर्फ दो घंटे फोड़ पाएंगे पटाखे

ऑनलाइन बिक्री पर रोक देशभर में पटाखों के उत्पादन, उनको बेचने और स्टॉक पर पाबंदी की मांग को लेकर दाखिल याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया है। सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में कहा है कि दिवाली पर लोग रात 8-10 बजे तक ही पटाखे चला सकेंगे। यह आदेश सभी धर्मों के त्यौहारों पर लागू होगा। सर्वोच्च न्यायालय ने यह भी कहा है कि जो पटाखें चलाए जाएं वो कम धुएं और आवाज वाले हों ताकि प्रदूषण ना फैले। सर्वोच्च न्यायालय ने पटाखों की बिक्री पर से भी कुछ शर्तों के साथ रोक हटाई है। इसके तहत पटाखों की ऑनलाइन बिक्री पर रोक लगा दी है। इससे पहले जस्टिस एके सीकरी और जस्टिस अशोक भूषण की पीठ ने कहा, हालांकि यह मामला सोमवार की सूची में शामिल था, लेकिन इस पर निर्णय 23 अक्टूबर को सुनाया जाएगा। शीर्ष कोर्ट ने 28 अगस्त को फैसला सुरक्षित रख लिया था। बता दें कि शीर्ष कोर्ट ने 2017 में दिल्ली-एनसीआर में दीपावली पर पटाखों की बिक्री पर पाबंदी लगा दी थी। दरअसल, वायु प्रदूषण खतरनाक स्तर पर पहुंचने के मद्देनजर सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर कर देशभर में पटाखों पर रोक लगाने की मांग की गई थी। पीठ ने इस मुद्दे पर याचिकाकर्ता, पटाखा निर्माता केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की दलीलों को सुनने के बाद कहा था कि पटाखों से स्वास्थ्य पर पड़ने वाले दुष्प्रभाव और इसके व्यापार के बीच एक संतुलन रखना होगा। पीठ का कहना था कि जहां पटाखा निर्माताओं को अपने जीविकोपार्जन का मूल अधिकार प्राप्त है वहीं 130 करोड़ लोगों को भी अच्छे स्वास्थ्य का मूल अधिकार प्राप्त है। सुनवाई के दौरान पटाखा निर्माताओं ने दलील दी थी कि दीपावली के बाद बढ़ने वाले वायु प्रदूषण के लिए सिर्फ पटाखे जिम्मेदार नहीं हैं और सिर्फ इस वजह से पूरे उद्योग को बंद करने का आदेश देना न्यायसंगत नहीं होगा। सुनवाई के दौरान पीठ ने बच्चों में श्वसन संबंधी दिक्कतों के बढ़ने पर चिंता जताते हुए पटाखों पर पूरी तरह से या फिर आंशिक प्रतिबंध लगाने की बात कही थी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

दुनिया का सबसे लंबा पुल चीन में

    चीन-हांगकांग के बीच बना दुनिया का सबसे लंबा समुद्री पुल को खोलने की घोषणा हो चुकी है। बुधवार यानि 24 अक्टूबर को इसे आम जनता के लिए खोल दिया जाएगा। रिपोर्ट्स के अनुसार चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने मंगलवार को इस पुल को लॉन्च कर दिया। एक विशेष आयोजन ने जिनपिंग ने इस पुल के खुलने की घोषणा की। झुहाई के दक्षिणी मैनलैंड शहर के न्यू पोर्ट टर्मिनल में आयोजित इस कार्यक्रम में हांगकांग के मकाऊ शहर के नेता भी शामिल हुए। जैसे ही जिनपिंग ने कहा कि मैं इस पुल के आधिकारिक रूप से खुलने की घोषणा करता हूं, धमाकेदार आतिशबाजी होने लगी। 55 किलोमीटर लंबे इस पुल का नाम हांगकांग-झुहैइ-मकाउ है। पर्ल रिवर ईस्टूरी पर स्थित बने इस पुल का निर्माण दिसंबर 2009 में शुरू हुआ था। इसके बनने के बाद हांगकांग और चीन के झुहैइ शहर के बीच की दूरी तीन घंटे से घटकर 30 मिनट रह जाएगी। स्थानीय अखबार के मुताबिक, हांगकांग के सांसदों ने कहा कि यह पुल हांगकांग अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट को सीधा जोड़ता है। यह पुल पर्ल रिवर एस्चुरी के लिंगदिंग्यांग जल क्षेत्र में स्थित है। 20 अरब डॉलर (लगभग 1.5 लाख करोड़ रुपये) की इस परियोजना को 9 साल में पूरा किया गया है। पुल के निर्माण में चार लाख टन स्टील का इस्तेमाल किया गया है, जो 60 एफिल टावर्स बनाने के लिए पर्याप्त होगा। तीन तारों की सीरीज से इस पुल को तैयार किया गया है। इसमें पानी के नीचे बनी 6.7 किलोमीटर लंबी सुरंग का निर्माण भी किया गया जो दो कृत्रिम द्वीपों को जोड़ती है। इस पुल में डुअल थ्री लेन है, जो समुद्र के ऊपर 22.9 किलोमीटर है जबकि 6.7 किलोमीटर समुद्र के नीचे सुरंगनुमा शक्ल में है। इसकी गहराई 44 मीटर तक है। पुल का बाकी हिस्सा जमीन पर बना है। सुरंग के दोनों तरफ दो कृत्रिम द्वीप हैं। ये दोनों 10 लाख वर्ग फुट के ज्यादा इलाके में बने हैं। इस पुल के निर्माण में जो स्टील लगा है वो भूकंप रोधी है और उस पर रिक्टर स्कैल पर 8 की तीव्रता वाले भूकंप का भी कोई असर नहीं होगा।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

राफेल डील हमारे लिए बूस्टर डोज : वायुसेना चीफ

राफेल डील को लेकर कांग्रेस के विरोध और आरोपों के बीच एक बार फिर से वायुसेना ने इस डील का समर्थन किया है। जहां एक तरफ विपक्ष इस डील को लेकर हंगामा कर रहा है वहीं इस बार खुद वायुसेना प्रमुख ने बुधवार को इस डील का समर्थन किया है। उन्होंने दिल्ली में एक बयान में इसे बूस्टर डोज करार दिया है। खबरों के अनुसार वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ ने एक बयान में कहा कि राफेल एक अच्छा एयरक्राफ्ट है और जहां तक उपमहाद्वीप की बात है तो यह गेम चेंबर साबित होगा। उन्होंने कहा कि इस डील में हमें कई फायदे हैं। राफेल और एस400 एयर मिसाइल डिफेंस सिस्टम डील हमारे लिए एक बूस्टर डोज होगा।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

narendr singh tomar

केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर की तबीयत बुधवार सुबह अचानक बिगड़ गई। उन्हें दिल्ली के एम्स में भर्ती कराया गया है। डॉक्टर आईसीयू में उनका इलाज कर रहे हैं। बताया जा रहा है कि तोमर का शुगर लेवल अचानक बढ़ गया था। जिसके बाद उनकी तबीयत बिगड़ गई। साथ मौजूद लोग उन्हें तुरंत एम्स लेकर पहुंचे। नरेंद्र सिंह तोमर की तबीतय बिगड़ने की खबर मिलते ही उनके समर्थक एम्स अस्पताल पहुंचना शुरू हो गए हैं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

राम और रोटी के सहारे कांग्रेस

  भाजपा के हिदुत्व का जवाब देने के लिए कांग्रेस पिछले कुछ चुनावों से लगातार सॉफ्ट हिदुत्व की राह पर चल रही है। गुजरात में मंदिर-मंदिर घूमकर कांग्र्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पार्टी की छवि सॉफ्ट हिदुत्व की बनाने की जो पहल शुरू की वह मध्यप्रदेश के चुनाव के आते तक राममय होने लगी है। ऐसे में मप्र में राम कांग्र्रेस के मुद्दा हो सकते हैं पर छत्तीसगढ़ में तो रोटी पर ही चुनाव लड़ जाएगा। मध्यप्रदेश कांग्रेस ने राम वनगमन मार्ग पर काम शुरू किया है। इसे चुनावी घोषणापत्र में शामिल करने की बात भी कही जा रही है। चुनाव प्रचार के तहत कांग्रेस ने मध्यप्रदेश के विंध्य पर्वत श्रेणी से लेकर प्रदेश के दक्षिणी हिस्से तक राम वनगमन मार्ग की तलाश भी शुरू कर दी है। उधर, छत्तीसगढ़ में भाजपाई मंत्री की कथित सेक्स सीडी में उलझी कांग्र्रेस जंगल सत्याग्रह से लेकर तमाम और आयोजन करने की तैयारी में है, लेकिन राम का नाम नहीं ले रही है। मध्यप्रदेश में राम का सहारा है तो यहां क्यों नहीं? इस सवाल पर कांग्रेस के प्रवक्ता शैलेष नितिन त्रिवेदी कहते हैं-यहां लोगों की रोजी-रोटी ही प्रमुख मुद्दा है। प्रदेश में भय, भूख, भ्रष्टाचार का मुद्दा ज्यादा अहम है। भाजपा और रमन सरकार के 15 साल के कुशासन से जनता त्रस्त हो गई है। वे कहते हैं राम भी हमें याद हैं। हो सकता है आगे राम पर भी कुछ कार्यक्रम हों, लेकिन अभी तो पार्टी ने ऐसा कुछ सोचा नहीं है। भगवान राम की बात हो तो छत्तीसगढ़ यानी दक्षिण कौशल और दंडकारण्य की चर्चा जरूर होगी। अपने वनवास का ज्यादातर समय राम ने यहीं गुजारा था। छत्तीसगढ़ को भगवान राम की ननिहाल भी माना जाता है, लेकिन यहां राम मुद्दा नहीं हैं। असल में राजनीति चलती ही ऐसे है। मध्यप्रदेश में एससी-एसटी एक्ट पर सवर्ण आंदोलन खड़ा हो गया। भाजपा भी वहां हिदुत्व को लेकर मुखर है, जबकि यहां तो भाजपा भी राम के बजाय विकास के नाम पर वोट मांगने निकली है। छत्तीसगढ़ में भगवान से राम से जुड़े कई स्थल मिलते हैं। भगवान राम मध्यप्रदेश से छत्तीसगढ़ के कोरिया जिले के भरतपुर पहुंचे थे। यहां से जनकपुर, बैकुंठपुर होते हुए देवगढ़ के जमदाग्नि आश्रम पहुंचे थे। भगवान राम विश्रामपुर से होकर सीतापुर के गुरु गाहिरा आश्रम आए थे। कोरबा में लक्ष्मण पादुका, रामझरना जैसे स्थल हैं। शिवरीनारायण को भगवान राम का स्थल माना जाता है। तुरतुरिया में ऋषि वाल्मीकि का आश्रम है। फिंगेश्वर, राजिम, सिहावा आदि जगहों पर भगवान राम के ढेरों प्रमाण मिलते हैं। भगवान राम ने छत्तीसगढ़ के दंडकारण्य इलाके में वनवास का सबसे ज्यादा समय गुजारा था। धमतरी जिले के सिहावा से धनोरा के रास्ते भगवान राम ने दंडकारण्य में प्रवेश किया था। बस्तर में नारायणपुर, चित्रकोट, बारसूर, सुकमा जिले के रामारम के रास्ते भगवान वर्तमान तेलंगाना के भद्राचलम पहुंचे थे। इसी रास्ते से होते हुए रामेश्वरम तक गए थे।    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

petrol

  देश में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी का दौर जारी है। शनिवार को राजधानी दिल्ली में पेट्रोल 22 पैसे और डीजल 21 पैसे महंगा हो गया। दिल्ली में एक लीटर पेट्रोल की कीमत 83.40 रुपए रही, वहीं डीजल 74.63 लीटर पर बेचा जा रहा है। मुंबई में पेट्रोल 90.75 रुपए प्रति लीटर पर पहुंच गया है। डीजल 79.23 प्रति लीटर है। मालूम हो, तेल की कीमतों में लगातार तेजी देखने को मिल रही है। गुरुवार को 13 पैसे की बढ़ोतरी के बाद शुक्रवार को फिर से तेल के दामों में बढ़ोतरी दर्ज हुई थी। वैश्विक स्तर पर कच्चे तेल की कीमतें और अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया के स्थिति के आधार पर ही सरकारी तेल विपणन कंपनियां पेट्रोल एवं डीजल की कीमतों में संशोधन करती हैं। आईओसी, भारत पेट्रोलियम कॉर्प लिमिटेड (बीपीसीएल) और हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्प लिमिटेड (एचपीसीएल) देश की तीन प्रमुख सरकारी तेल विपणन कंपनियां हैं। गौरतलब है कि भारत अपनी जरूरत के कच्चे तेल का 80 फीसद हिस्सा आयात करता है। भारत के आयात बिल में पेट्रोल और डीजल की एक बड़ी हिस्सेदारी होती है। पेट्रोलियम उत्पादों की कीमत में आधा हिस्सा केंद्र और राज्य सरकारों के स्तर पर लगने वाले टैक्स का है। कंपनियों के मुताबिक रिफाइनरी पर पेट्रोल की लागत करीब 40.50 रुपये और डीजल की कीमत करीब 43 रुपये प्रति लीटर पड़ती है। केंद्र सरकार पेट्रोल और डीजल पर प्रति लीटर क्रमश: 19.48 रुपये और 15.33 रुपये उत्पाद शुल्क वसूलती है। इसके ऊपर राज्य सरकारें इन पर मूल्यवर्धित कर (वैट) लगाती हैं। वैट की दरें विभिन्न राज्यों में अलग-अलग हैं। अंडमान एवं निकोबार में दोनों ईंधनों पर सबसे कम छह फीसद की दर से टैक्स वसूला जाता है। वहीं पेट्रोल पर मुंबई में सर्वाधिक 39.12 फीसद और डीजल पर तेलंगाना में सर्वाधिक 26 फीसद वैट लगता है। दिल्ली में पेट्रोल-डीजल पर वैट की दरें क्रमश: 27 फीसद और 17.24 फीसद हैं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

अयोध्या केस की सुनवाई 29 अक्टूबर से रोज होगी

सुप्रीम कोर्ट में गुरुवार को इस मुद्दे पर सुनवाई हुई कि 'नमाज के लिए मस्जिद इस्लाम का अभिन्न अंग है या नहीं?' तीन जजों की पीठ ने 1994 के उस फैसले पर फिर से विचार करने और केस को 7 जजों की बड़ी पीठ को भेजने से इन्कार कर दिया, जिसमें कहा गया था कि नमाज पढ़ने के लिए मस्जिद जरूरी नहीं। यूं तो कहा जा रहा है कि इस फैसले का अयोध्या केस पर कोई असर नहीं पड़ेगा, लेकिन जानकारों के मुताबिक, इस केस से जुड़ी दो बाते सीधी अयोध्या केस से जुड़ी हैं। दरअसल, 'नमाज के लिए मस्जिद' केस की सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने यह भी तय कर दिया कि 29 अक्टूबर से अयोध्या केस की नियमित सुनवाई होगी। यानी इस फैसले के बाद अयोध्या केस की नियमित सुनाई का रास्ता साफ हो गया है। अगर यह केस बड़ी बेंच को जाता तो शायद अयोध्या केस भी अटक जाता। इस केस के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने एक और अहम फैसला यह लिया है कि अयोध्या मामले को भी पांच जजों की बेंच को नहीं भेजा जाएगा। अब इस केस की सुनवाई भी तीन जजों की बेंच ही करेगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

hd kumarsvami

बैंगलुर से अच्छी खबर।  पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के बीच कर्नाटक की कांग्रेस सरकार ने राज्य में तेल की कीमतें दो रुपए कम कर दी हैं। सूबे के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने इसका ऐलान किया है। इससे पहले तेलंगाना ने भी पेट्रोल-डीजल की कीमतों में दो रुपए की कटौती की थी। इससे पहले राजस्थान की भाजपा सरकार ने भी पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कटौती की थी। वसुंधरा सरकार ने राज्य में पेट्रोल-डीजल पर लगने वाले वैट में चार फीसद की कटौती की थी। इस बीच पेट्रोल और डीजल के दामों में बढ़ोतरी का सिलसिला जारी है। सोमवार को पेट्रोल 15 पैसे और डीजल 6 पैसे महंगा हुआ। दिल्ली में पेट्रोल के दाम 82.06 रुपए/लीटर और डीजल के दाम 73.78 रुपए/लीटर रहे। वहीं मुंबई में पेट्रोल रिकॉर्ड 89.44 रुपए/लीटर पर रहा। देश की आर्थिक राजधानी में डीजल के दाम 78.33 रुपए/लीटर रहे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

ramdev

  पेट्रोल और डीजल के दामों में आग लगी हुई है। रोज तेल के दाम नई ऊंचाईयों को छू रहे हैं। मुंबई में पेट्रोल की कीमत 89 रुपए के स्तर को पार कर चुकी है। इस बीच बाबा रामदेव ने कहा है कि अगर सरकार उन्हें इजाजद दे, तो वह 35 से 40 रुपए लीटर में पेट्रोल और डीजल बेच सकते हैं। उन्‍होंने कहा कि अगर सरकार मुझे ऐसा करने की इजाजत दे और टैक्‍स में कुछ छूट दे, तो मैं भारत को 35-45 रुपए लीटर में पेट्रोल-डीजल दे सकता हूं। उन्‍होंने कहा कि पेट्रोल-डीजल की ऊंची कीमतों का अगले साल चुनाव पर असर पड़ेगा। बढ़ोतरी रोकने के लिए केंद्र सरकार को कदम उठाना चाहिए। रामदेव ने कहा कि ईंधन की कीमतों को जीएसटी के निम्नतम दायरे में लाया जाए, न कि अधिकतम 28 फीसद के स्लैब में। लोगों की जेब तेल के महंगे होने से खाली हो रही हैं। लगातार बढ़ते पेट्रोल के दाम से मोदी सरकार दबाव में है। हालांकि, लगातार गिरती रुपए की कीमत और अमेरिका द्वार ईरान पर लगाए गए प्रतिबंध आदि कुछ ऐसी वैश्विक वजहें हैं, जिससे सरकार पेट्रोल की कीमतों में कटौती नहीं कर सकती है। अगर मोदी सरकार पेट्रोल और डीजल पर एक रुपए की कटौती करती है, तो उसे राजस्व में 14 हजार करोड़ रुपए का नुकसान होगा। इससे वित्तीय घाटे को जीडीपी के 3.3 फीसद के लक्ष्य तक ले जाने में सरकार विफल हो जाएगी। बताते चलें कि वर्तमान में सरकार पेट्रोल पर 19.48 रुपए प्रति लीटर और डीजल पर 15.33 रुपए प्रति लीटर एक्साइज ड्यूटी लगाती है। वहीं, हर राज्यों में वैट की दर अलग-अलग हैं। रामदेव ने कहा कि वह किसी एक दल के साथ नहीं हैं। महंगाई के सवाल पर बाबा रामदेव ने कहा कि मैं या आप कहें या न कहें पर मोदी सरकार को ये महंगाई कम करनी होगी। अगर ये महंगाई कम नहीं की, तो ये आग उन्‍हें ले डूबेगी।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

shivraj singh

मुख्यमंत्री द्वारा रक्तदान शिविर का शुभारंभ और यातायात उद्यान में पौध-रोपण  मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि संपूर्ण प्रदेश में 17 से 25 सितम्बर तक सेवा कार्य होंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज शासकीय मोतीलाल नेहरू महाविद्यालय मेंरक्तदान शिविर और यातायात उद्यान में पौधरोपण कार्यक्रम में शामिल हुए। उन्होंने महाविद्यालय में रक्तदान शिविर का शुभारंभ किया और यातायात उद्यान में पौध-रोपण किया। इस अवसर पर सांसद श्री आलोक संजर, महापौर श्री आलोक शर्मा, अध्यक्ष नगर निगम श्री सुरजीत सिंह चौहान और विधायक श्री सुरेन्द्रनाथ सिंह उपस्थित थे। रक्तदान-जीवनदान मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि रक्तदान जीवनदान है। उन्होंने रक्तदाताओं को दूसरों को जीवन देने के लिये बधाई दी। श्री चौहान ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी को प्रदेश की साढ़े सात करोड़ जनता की ओर से जन्म दिवस की बधाई दी। उन्होंने बताया कि श्री मोदी के जन्म दिवस से पं. दीनदयाल उपाध्याय की जयंती तक संपूर्ण प्रदेश में सामाजिक सहयोग से निरंतर सेवा के कार्य निरंतर किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी नया भारत बनाने में जुटे हैं। मध्यप्रदेश की जनता उनके साथ खड़ी है। रक्तदान कार्यक्रम में बड़ी संख्या में रक्तदाता छात्र-छात्राएं मौजूद थे। मुख्यमंत्री ने छात्र-छात्राओं के साथ सेल्फी भी खिंचवाई। वृक्ष है, तो मानव जीवन है मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि वृक्ष है, तो मानव जीवन है। उन्होंने बताया कि लोकप्रिय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी का जन्म दिवस प्रदेश में सेवा दिवस के रूप में मनाया जा रहा है। श्री चौहान ने कहा कि सेवा ही सबसे बड़ा उपहार है। संपूर्ण प्रदेश में नागरिक सेवा कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में देश का मान-सम्मान बढ़ा है। देश लगातार हर क्षेत्र में नई ऊँचाईयों को छू रहा है। हमारी अर्थ-व्यवस्था दुनिया में तेजी से आगे बढ़ रही है। मुख्यमंत्री ने यातायात पार्क में आम का पौधा लगाया।        

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

तेलंगाना सरकार

तेलंगाना सरकार ने विधानसभा भंग करने की सिफारिश कर दी है। मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव की अध्यक्षता में गुरुवार को हुई मंत्रिमंडल की बैठक में सदन भंग करने की सिफारिश करने का फैसला लिया गया। इसके तुरंत बाद राव राजभवन गए और प्रस्ताव राज्यपाल ईएसएल नरसिम्हन को सौंप दिया। राज्यपाल ने सिफारिश मंजूर कर ली और केसीआर को कार्यवाहक मुख्यमंत्री बने रहने को कहा। इस बीच राज्य में सियासी उबाल आ गया है और सभी दल अचानक चुनावी रंग में नजर आने लगे हैं। केसीआर के इस्तीफे के साथ ही बयानबाजी का दौर भी शुरू हो गया है। खुद चंद्रशेखर राव ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर तीखा हमला किया है। केसीआर के इस बयान का कांग्रेस ने विरोध करते हुए उन्हें भाजपा के हाथों की कठपुतली तक करार दे दिया। खबरों के अनुसार केसीआर ने गुरुवार को अपने एक बयान में कहा कि राहुल गांधी देश के "सबसे बड़े मसखरे" हैं, वह जितना तेलंगाना आएंगे टीआरएस उतनी ज्यादा सीटें जीतेगी। उन्होंने कहा, "सब जानते हैं कि राहुल गांधी क्या हैं। वह देश के सबसे बड़े मसखरे हैं। पूरे देश ने देखा कि वह कैसे नरेंद्र मोदी के पास गए और उन्हें गले लगाया और किस तरह वह आंख मार रहे थे। वह जितना तेलंगाना आएंगे हम उतनी ज्यादा सीटें जीतेंगे।" कांग्रेस ने टीआरएस प्रमुख के. चंद्रशेखर राव को भाजपा के हाथों की कठपुतली कहा है। पार्टी ने उनपर तेलंगाना के हितों के साथ धोखा करने का आरोप लगाया है। राज्य विधानसभा भंग करने की सिफारिश के बाद कांगे्रस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि राव ने यह कदम उठाकर जनादेश का अपमान किया है। भाजपा ने कहा कि तेलंगाना विधानसभा चुनाव में टीआरएस की सबसे बड़ी चुनौती वही होगी। इसका कारण यह है कि कांगे्रस विभाजित पार्टी है। केवल भाजपा के पास ही सकारात्मक एजेंडा है। यही पार्टी विजेता बनेगी।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

ret mafita

मध्यप्रदेश के मुरैना में एक बार रेत माफिया ने पुलिस को चुनौती दी है। अवैध उत्खनन कर रेत ले जा रहे एक ट्रैक्टर रोकने की कोशिश कर रहे डिप्टी रेंजर को ट्रैक्टर चालक ने कुचल दिया। डिप्टी रेंजर की मौत हो गई। मिली जानकारी के मुताबिक घटना एबी रोड के धौलपुर रोड पर वन नाका डिपो की है। मुरैना वन मंडल में पदस्थ सूबेदार सिंह कुशवाहा (58) यहां ड्यूटी कर रहे थे। इसी दौरान उन्हें रेत ले जा रहा एक ट्रैक्टर दिखा। डिप्टी रेंजर कुशवाह ने ट्रैक्टर रोकने की कोशिश की तो चालक ने ट्रैक्टर दौड़ा दिया और डिप्टी रेंजर को रौंद दिया और फरार हो गया। साथी कर्मी उन्हें तुरंत अस्पताल लेकर पहुंचे लेकिन तब तक उन्होंने दम तोड़ दिया। मुरैना एसपी अमित सांघी ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि पुलिस ने ट्रैक्टर चालक के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

मिग क्रैश, बाल-बाल बचा पायलट

राजस्थान के जोधपुर में सेना का विमान क्रैश हो गया है। जोधपुर में एयरफोर्स का एक लडाकू विमान मिग 27 मंगलवार सुबह बनेड़ा क्षेत्र के देवलिया गांव में गिर गया। इस विमान में एक पायलट था और दुर्घटना को भांपते हुए प्लेन से समय पर निकल गया जिससे उसकी जान बच गई। देवलिया गांव के पास दुर्घटना ग्रस्त विमान के कुछ देर बाद ही सेना का हेलीकॉप्टर मौके पर पहुंचा और पायलट को मिलिट्री हॉस्पिटल ले गए। वायु सेना ने इस मामले की जांच के आदेश दिए हैं। जानकारी के अनुसार जोधपुर वायुसेना के एयरबेस से सुबह करीब आठ बजे नियमित उड़ान पर निकले मिग 27 में कुछमिनिट बाद ही पायलट को तकनीकी समस्या के संकेत मिल गए थे। पायलट इसे खुले मैदान की तरफ ले गया और खुद निकल गया। पायलट के एग्जिट होने के एक मिनट के अंदर ही यह विमान जमीन पर औंधे मुंह जा गिरा और इसमें आग लग गई।घटना स्थल से करीब दो किमी दूर पायलट जमीन पर गिरा। इसके कुछ देर बाद ही सेना का हेलीकॉप्टर पहुंचा और पायलट को लेकर चला गया। इस दौरान सेना ने विमान के मलबे के आस पास का क्षेत्र अपने कब्जे में ले लिया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

ladaku viman

एक तरफ जहां 59 हजार करोड़ रुपए में 36 राफेल विमान खरीदने के सौदे को लेकर कांग्रेस लगातार भाजपा सरकार पर हमला कर रही है। वहीं, दूसरी तरफ मोदी सरकार एक और डील करने जा रही है। सरकार 20 अरब डॉलर (1.4 लाख करोड़ रुपए) में 114 नए लड़ाकू विमान खरीदने की तैयारी कर रही है। बताया जा रहा है कि यह दुनिया का सबसे बड़ा रक्षा सौदा होगा। रक्षा मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण की अध्यक्षता में डिफेंस एक्वीजिशन काउंसिल इस महीने के अंत में या अगले महीने की शुरुआत में 114 जेट विमानों के लिए एक्सेप्टेंस ऑफ नेसेसिटी पर विचार कर सकती है। इस प्रस्तावित प्रोजेक्ट के तहत सौदा होने के तीन से पांच साल के अंदर 18 विमान फ्लाई-अवे कंडीशन (आते ही इस्तेमाल के लिए तैयार) के साथ आएंगे। वहीं, बाकी विमानों को भारत में स्ट्रेटेजिक पार्टनरशिप पॉलिसी के तहत विदेशी विमान कंपनियों और भारतीय कंपनियों के सहयोग से बारत में विकसित किया जाएगा। मजेदार बात यह है कि रूस के सुखोई-35 फाइटर ने भी बोली लगाई है। इसके लिए वायुसेना ने आरएफआई (सूचना के लिए अनुरोध) या शुरूआती निविदा अप्रैल में जारी की थी। अधिकारियों ने कहा कि भारत में अत्याधुनिक रक्षा प्रौद्योगिकी लाने के मकसद से हाल में शुरू रणनीतिक भागीदारी मॉडल के तहत भारतीय कंपनी के साथ मिलकर विदेशी विमान निर्माता लड़ाकू विमानों का उत्पादन करेंगे। वायुसेना पुराने हो चुके कुछ विमानों को बाहर करने के लिए अपने लड़ाकू विमान बेड़े की गिरती क्षमता का हवाला देते हुए विमानों की खरीद प्रक्रिया में तेजी लाने पर जोर दे रही है। सरकार ने पांच साल पहले वायु सेना के लिए 126 मध्यम बहु भूमिका लड़ाकू विमान (एमएमआरसीए) की खरीद प्रक्रिया को रद्द कर दिया था। इसके बाद लड़ाकू विमानों के लिए यह पहला बड़ा सौदा होगा। इससे पहले राजग सरकार ने सितंबर 2016 में 36 राफेल दोहरे इंजन वाले लड़ाकू विमानों की खरीद के लिए फ्रांस सरकार के साथ करीब 59000 करोड़ रूपये के सौदे पर दस्तखत किए थे। बता दें कि फ्रांस के साथ केंद्र सरकार के करार को लेकर कांग्रेस के हमलों के बीच तीन राफेल लड़ाकू विमान रविवार को पहली बार भारत पहुंच गए हैं। ये विमान तीन दिन तक ग्वालियर एयरबेस पर रहेंगे और वायुसेना के पायलट इन पर प्रशिक्षण हासिल करेंगे। ये लड़ाकू विमान ऑस्ट्रेलिया में एक अंतरराष्ट्रीय युद्धाभ्यास में शामिल होने गए थे। वहां से लौटते हुए ग्वालियर आए।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

कांग्रेस राफेल डील पर हुई आक्रामक

  राफेल सौदे के मुद्दे पर कांग्रेस ने सरकार की घेराबंदी तेज कर दी है। गुरुवार को कांग्रेस ने राजधानी में दिल्ली में विरोध प्रदर्शन किया। इससे पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी ट्वीट कर वित्त मंत्री अरुण जेटली पर निशाना साध चुके हैं। राहुल ने ट्वीट कर जेटली को 24 घंटे में उसका जवाब देने का चैलेंज दिया था। राहुल ने लिखा था - मिस्टर जेटली, राफेल रॉबरी पर देश का ध्यान लाने के लिए धन्यवाद! क्या राफेल सौदे की जांच जेपीसी से कराई जाए? लेकिन, समस्या ये है कि आपके सुप्रीम लीडर अपने दोस्तों को बचा रहे हैं। इसीलिए यह उनके लिए असुविधानजक हो सकती है। आप 24 घंटे में इसका जवाब दें, हम इंतजार कर रहे हैं। बाद में कांग्रेस उपाध्यक्ष ने गुरुवार को एक और ट्वीट कर लिखा- 'डियर मिस्टर जेटली, राफेल सौदे पर जेपीसी जांच के जवाब पर डेडलाइन खत्म होने में 6 घंटे से भी कम समय बचा है। युवा भारत इंतजार कर रहा है। मुझे आशा है कि आप पीएम मोदी और अनिल अंबानी जी को ये समझा रहे होंगे कि वे आपको क्यों सुने और इसे मंजूरी दे।' राफेल अनेक भूमिकाएं निभाने वाला एवं दोहरे इंजन से लैस फ्रांसीसी लड़ाकू विमान है और इसका निर्माण डसॉल्ट एविएशन ने किया है। राफेल विमानों को वैश्विक स्तर पर सर्वाधिक सक्षम लड़ाकू विमान माना जाता है। भारत ने 2007 में 126 मीडियम मल्टी रोल कॉम्बैट एयरक्राफ्ट (एमएमआरसीए) को खरीदने की प्रक्रिया शुरू की थी, जब तत्कालीन रक्षा मंत्री एके एंटनी ने भारतीय वायु सेना से प्रस्ताव को हरी झंडी दी थी। इस बड़े सौदे के दावेदारों में लॉकहीड मार्टिन के एफ-16, यूरोफाइटर टाइफून, रूस के मिग-35, स्वीडन के ग्रिपेन, बोइंड का एफ/ए-18 एस और डसॉल्ट एविएशन का राफेल शामिल था। लंबी प्रक्रिया के बाद दिसंबर 2012 में बोली लगाई गई। डसॉल्ट एविएशन सबसे कम बोली लगाने वाला निकला। मूल प्रस्ताव में 18 विमान फ्रांस में बनाए जाने थे जबकि 108 हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड के साथ मिलकर तैयार किये जाने थे। संप्रग सरकार और डसॉल्ट के बीच कीमतों और प्रौद्योगिकी के हस्तांतरण पर लंबी बातचीत हुई थी। अंतिम वार्ता 2014 की शुरुआत तक जारी रही लेकिन सौदा नहीं हो सका। प्रति राफेल विमान की कीमत का विवरण आधिकारिक तौर पर घोषित नहीं किया गया था, लेकिन तत्कालीन संप्रग सरकार ने संकेत दिया था कि सौदा 10.2 अरब अमेरिकी डॉलर का होगा। कांग्रेस ने प्रत्येक विमान की दर एवियोनिक्स और हथियारों को शामिल करते हुए 526 करोड़ रुपये (यूरो विनिमय दर के मुकाबले) बताई थी।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

ओपी रावत

मुख्य निर्वाचन आयुक्त ओपी रावत ने भोपाल में कहा है कि 2013 के मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में आयकर विभाग ने जितनी भी नकदी पकड़ी थी, उनमें से ज्यादातर मामलों में अंतिम रूप से जब्ती की कार्रवाई हो गई है। इसी तरह जो आपराधिक प्रकरण दर्ज हुए थे, उनमें 69 फीसदी तक सजा हुई है। यह बात राजनीतिक दलों के उन लोगों को पूरी तरह से भयभीत कर देगी जो किसी भी तरह की गड़बड़ी की सोच रखते हैं। रावत ने चुनाव आयुक्त सुनील अरोरा और अशोक लवासा सहित अन्य अधिकारियों के साथ दो दिन मप्र में चुनावी तैयारियों की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी वीएल कांताराव की तारीफ की। साथ ही कहा कि आयकर विभाग, कलेक्टर और पुलिस अधीक्षकों ने पिछले चुनाव के वक्त दर्ज मामलों में हुई कार्यवाही को लेकर जो ब्योरा दिया, वो काफी अच्छा है। इससे चुनाव में गड़बड़ी करने की सोच रखने वाले भयभीत होंगे। रावत ने यह भी बताया कि यह भ्रम है कि ईवीएम चीन या जापान से बनकर आ रही हैं। ऐसा बिल्कुल भी नहीं है। ईवीएम भारत में जहां बन रही हैं, वहां परिंदा भी पर नहीं मार सकता है। मुख्य निर्वाचन आयुक्त ने बताया कि अधिकारियों को हिदायत दी गई है कि अब से पूरी तरह से निष्पक्षता के साथ काम करें। पक्षपाक्षपूर्ण कार्रवाई को गंभीरता से लिया जाएगा। कड़ी कार्रवाई भी होगी। जब यह पूछा गया कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की जनआशीर्वाद यात्रा में कई अधिकारी शिरकत कर रहे हैं तो उन्होंने कहा कि जानकारी आने पर ऐसे मामलों में संज्ञान लेंगे। रावत बोले कि राजनीतिक दल और उम्मीदवारों को 24 घंटे के भीतर चुनाव संबंधी अनुमतियां मिलेंगी। इसके लिए सिंगल विंडो सिस्टम लागू किया गया है। इसमें एक जगह पर सभी अधिकारी बैठेंगे और अनुमतियां देने की कार्यवाही पूरी करेंगे। नीमच के कुछ गांवों में एट्रोसिटी एक्ट के विरोध में मतदान नहीं करने या नोटा में वोट देने के पोस्टर लगाए जाने पर रावत ने कहा कि हम मतदाताओं को समझाएंगे। चुनाव की प्रक्रिया में भाग लेने से रास्ते खुलते हैं।  चुनाव आयोग पहली बार दिव्यांगों के लिए पर्यवेक्षकों को तैनात करेगा। इनके लिए मतदान केंद्रों में व्यवस्थाएं भी की जाएंगी। एनजीओ की मदद भी लेंगे। इस चुनाव में सीविजिलेंस सिस्टम भी लागू किया जाएगा। इसका प्रयोग बेंगलुरु में किया गया था। इसमें कोई भी व्यक्ति कहीं से भी वीडियो या फोटो भेज सकता है। इसमें फर्जी शिकायतों पर जहां न्यूनतम हो जाएंगी, वहीं कार्यवाही तेजी के साथ होगी। सहकारिता राज्य मंत्री विश्वास सारंग ने बुधवार को मुख्य निर्वाचन आयुक्त ओपी रावत से दो बार मुलाकात की। एक ही दिन में दो बार हुई इस मुलाकात के कई सियासी मायने निकाले जा रहे हैं। सारंग दोपहर को रावत से मिलने नर्मदा भवन पहुंचे थे, यहां उन्होंने चलते-चलते सारंग से बातचीत की। इसके बाद सारंग ने शाम को होटल जहांनुमा जाकर रावत से बातचीत की। माना जा रहा है कि सारंग ने नरेला विधानसभा में हटाए गए नामों को लेकर बातचीत की है। कांग्रेस की शिकायत के बाद नरेला की मतदाता सूची से 34 हजार मतदाताओं के नाम काट दिए गए हैं, जबकि सारंग का कहना है कि आयोग ने 5 हजार सही मतदाताओं के नाम काट दिए हैं। मुलाकात को लेकर सारंग ने कहा कि भाजपा की ओर से कुछ लिखित सुझाव देने के लिए उनसे मुलाकात की गई है। पूर्व मंत्री व कांग्रेस नेता राजकुमार पटेल ने भी रावत से मुलाकात की और चुनाव सुधार को लेकर कुछ सुझाव दिए।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

लालू यादव, राबड़ी

शुक्रवार को प्रवर्तन निदेशालय ने राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव, उनकी पत्नी राबड़ी देवी और अन्य के खिलाफ आईआरसीटीसी को होटल आवंटन के मामले हुई मनी लॉन्ड्रिंग में पहली चार्जशीट दाखिल की है। ईडी ने पीएमएलए एक्ट के तहत लालू प्रसाद यादव के बेटे और बिहार के पूर्व उप-मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव और पार्टी में उनके सहयोगी पीसी गुप्ता और उनकी पत्नी सरला गुप्ता का नाम भी चार्जशीट में रखा है। ईडी के मुताबिक लालू प्रसाद यादव और आईआरसीटीसी के अफसरों ने अपने पद का दुरुपयोग करते हुए पुरी और रांची में बने रेलवे के दो होटलों को सुजाता होटल प्राइवेट लिमिटेड को लीज पर दिया था। इन होटलों को लीज पर देने के एवज में पटना में मौजूद बेशकीमती जमीन डिलाइट मार्केटिंग कंपनी के नाम ट्रांसफर की गई, ये कंपनी लालू के करीबी पीसी गुप्ता के परिवार के नाम दर्ज थी। इस जमीन को मौजूदा सर्किल रेट से काफी कम दर पर डिलाइट मार्केटिंग कंपनी को दी गई थी। इसके बाद पीसी गुप्ता की डिलाइट मार्केटिंग ने ये जमीन राबड़ी देवी और लालू के बेटे तेजस्वी यादव के नाम कर दी। इस जमीन को खरीदने के लिए जो पैसा इस्तेमाल हुआ, वो संदिग्ध स्रोतों के जरिए आया। इस पैसे को भी ट्रांसफर करने के लिए पीसी गुप्ता की कंपनियों का इस्तेमाल किया गया। इस केस में ईडी ने अब तक 44 करोड़ की संपत्ति सीज की है। इसी मामले में सीबीआई ने भी कुछ वक्त पहले चार्जशीट दाखिल की है। सीबीआई की एफआईआर में लालू प्रसाद यादव पर ये आरोप है कि यूपीए-1 सरकार में रेल मंत्री रहते उन्होंने आईआरसीटीसी के होटलों के मेंटेनेंस का ठेका जिस कंपनी को दिया था, उससे उन्होंने घूस में पटना की बेशकीमती जमीन ली थी। ये जमीन पीसी गुप्ता की पत्नी सरला के नाम दर्ज एक बेनामी कंपनी के जरिए लालू के परिवार को मिली थी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

दिल्ली हाईकोर्ट

हरियाणा के मिर्चपुर में साल 2010 में दलितों के घर जलाने को लेकर दिल्ली हाईकोर्ट ने शुक्रवार को अपना फैसला सुना दिया है। जिसके तहत अब दिल्ली हाईकोर्ट ने अपने फैसले में जाट समुदाय के उन लोगों को भी दोषी ठहराया है, जिन्हें ट्रायल कोर्ट ने बरा कर दिया था। इसके साथ ही कोर्ट ने 20 लोगों को उम्रकैद की सजा सुनाई है। इनमें से तीन को निचली अदालत पहले ही उम्रकैद की सजा सुना चुकी है। अपने फैसले में कोर्ट ने सख्त टिप्पणी में कहा- 'जाट समुदाय ने जानबूझकर वाल्मीकी समुदाय के लोगों पर हमला किया। यहां पर बता दें कि रोहिणी कोर्ट ने 2011 में अपने फैसले में 82 आरोपियों को बरी कर दिया था। जबकि 15 को दोषी बताते हुए कोर्ट ने सजा सुनाई थी। मामले में कुल 97 लोग आरोपी थे। बाकी बचे दंगा भड़काने के 7 आरोपियों को डेढ़ साल की सजा मिली और एक वर्ष के प्रोबेशन पर 10-10 हजार रुपये के निजी मुचलके पर रिहा कर दिया गया था जबकि 82 आरोपियों को बरी कर दिए थे। हरियाणा के मिर्चपुर इलाके में अप्रैल 2010 में 70 साल के दलित बुजुर्ग और उसकी बेटी को जिन्दा जला दिया गया था। जिसके बाद गांव के दलितों ने पलायन कर लिया था। ट्रायल के बाद दिल्ली की रोहिणी कोर्ट ने मिर्चपुर कांड में दोषी ठहराए गए 15 आरोपियों में से घर जलाने वाले तीन लोगों को उम्रकैद और आगजनी के पांच दोषियों को पांच-पांच वर्ष कैद समेत 20-20 हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई थी। इस विभत्स मामले में कुल 97 लोग आरोपी थे। बाकी बचे दंगा भड़काने के 7 आरोपियों को डेढ़ साल की सजा मिली थी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

hardik patel

  पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने कहा है कि राजद्रोह मामले में उसकी जमानत खारिज कर दी जाए या 25 अगस्त से शुरू होने वाले आमरण उपवास से पहले जेल भेज दिया जाए तो वे जेल में उपवास शुरु कर देंगे। हार्दिक ने साफ कहा कि किसी भी सूरत में वे आंदोलन को बंद नहीं करेंगे, सरकार को जो करना है वो करे। उधर हार्दिक के उपवास आंदोलन को देखते हुए पुलिस ने सभी जवान व अधिकारियों का 2 दिन का अवकाश रद्द कर दिया है। पाटीदार समाज को आरक्षण व किसानों की कर्ज माफी के लिए शनिवार से आमरण उपवास की घोषणा करने वाले हार्दिक पटेल को पुलिस व प्रशासन से अहमदाबाद व गांधीनगर में कहीं भी उपवास करने की इजाजत नहीं मिली। हार्दिक अब सरखेज गांधीनगर हाइवे पर स्थित अपने आवास पर ही उपवास करने वाले हैं। शनिवार को दोपहर तीन बजे हार्दिक उपवास शुरु करेंगे, इससे पहले पुलिस महानिदेशक शिवानंद झा ने पुलिस महकमे में सभी जवान व अधिकारियों के दो दिन के अवकाश रद्द कर दिए हैं, पुलिस ने राज्य में शांति व कानून व्यवस्था को बनाए रखने के लिए एहतियातन यह कदम उठााए हैं। उधर हार्दिक ने कहा है कि अदालत से उनकी जमानत खारिज किए जाने पर वे खुद साबरमती जेल पहुंचकर समर्पण कर देंगे तथा पुलिस के गिरफ्तार कर जेल भेजे जाने पर जेल में रहते हुए उपवास करते रहेंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

केरल में मोदी ने हवाई सर्वेक्षण के बाद दी 500 करोड़ की मदद

केरल में मौसम का जानलेवा रुख बना हुआ है। इस बीच शुक्रवार रात केरल पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को बाढ़ प्रभाविता इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया। इस दौरान उनके साथ राज्य के मुख्यमंत्री पी विजयन भी थे। हवाई सर्वेक्षण के बाद प्रधानमंत्री ने केंद्र की तरफ से राज्य को 500 करोड़ रुपए की आर्थिक मदद का ऐलान किया है वहीं नेशनल हाईवे अथॉरिटी को सड़को की मरम्मत के निर्देश दिए हैं। दावा है कि राज्य में 20 हजार करोड़ का नुकसान हुआ है। प्रदानमंत्री ने इसके अलावा बाढ़ में मारे गए लोगों के परिजनों को 2 लाख रुपए और घायलों को 50 हजार रुपए की मदद का भी ऐलान किया है। केंद्र सरकार पहले 100 करोड़ की मदद दे चुकी है। इससे पहले प्रधानमंत्री ने राज्य में आपदा प्रबंधन के व अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ कोच्चि में बैठक की। इस बैठक में मुख्यमंत्री भी शामिल थे। राज्य में अकेले गुरुवार को ही वर्षा जनित घटनाओं में 106 लोगों की जान चली गई। इसके साथ ही राज्य में अब तक बाढ़ और बारिश की वजह से 324 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि, केरल के बदतर हालात को देखते हुए अन्य राज्यों के अलावा केंद्र ने मदद का हाथ बढ़ाया है। आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री ने जहां बाढ़ राहत कोष के लिए 10 करोड़ की मदद का ऐलान किया है वहीं पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने भी 5 करोड़ की मदद का ऐलान किया है। इनके अलावा तेलंगाना ने 25 करोड़ की मदद का ऐलान किया है। इनके अलावा बिहार के मुख्यमंत्री ने केरल को 10 करोड़ की मदद, ओडिशा के मुख्यमंत्री ने 5 करोड़, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने 10 करोड़ और स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने 2 करोड़ की मदद की है। जबकि दिल्ली के मुख्यमंत्री ने घोषणा की है कि राज्य के विधायक अपनी एक महीने की तनख्वाह केरल बाढ़ राहत के लिए देंगे। महिला व बाल विकास मंत्रालय ने 10 टन खाने के पैकेट केरल भेजे हैं। महिला व बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने यह जानकारी दी। रनवे पर भी पानी भर जाने से कोच्चि अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा पर परिचालन बंद कर दिया गया है। 25 से अधिक ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है और कुछ के समय में परिवर्तन किया गया | दक्षिण रेलवे ने शुक्रवार को तीन विशेष ट्रेनों से प्रभावित इलाकों के लिए पेयजल भेजा है। महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने 100 मीट्रिक टन तैयार खाने के पैकेट बाढ़ प्रभावित इलाकों को भेजा है। बीमा नियामक इरडा ने सभी बीमा कंपनियों को दावों का तुरंत भुगतान करने के लिए विशेष शिविर लगाने को कहा है। राज्य में शुक्रवार को संकट और गहरा गया, अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी हो गई है और पेट्रोल पंपों में ईंधन नहीं है। सदी के भीषण संकट का सामना कर रहे राज्य में आठ अगस्त से अभी तक 173 मौतें हो चुकी हैं। हजारों एकड़ में फसलें तबाह हो चुकी हैं। राज्य के बुनियादी ढांचा को भी भारी तबाही का सामना करना पड़ रहा है। ऑस्ट्रेलिया, अमेरिका और ब्रिटेन से प्रवासी टीवी चैनलों के माध्यम से अपने प्रियजनों की मदद की गुहार लगा रहे हैं। एक महिला ने अपने छह साल के बच्चे के साथ वाट्सएप संदेश से मदद की गुहार लगाई है। राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) के साथ ही सैनिकों ने फंसे लोगों को बचाने के लिए शुक्रवार सुबह से बचाव अभियान तेज कर दिया। पहाड़ी क्षेत्रों में भूस्खलन के कारण सड़क जाम हो रहे हैं। कई गांव टापू में तब्दील हो गए हैं। महिलाओं, बच्चों और बुजुर्गों को सेना के हेलिकॉप्टरों से निकाला जा रहा है। अलुवा, कालाडी, पेरुंबवूर, मुवाट्टुपुझा एवं चालाकुडी में फंसे लोगों को निकालने में स्थानीय मछुआरे भी अपनी-अपनी नौकाओं के साथ शामिल हुए। प्रधानमंत्री के निर्देश पर रक्षा मंत्रालय ने राहत एवं बचाव के लिए सेना के तीनों अंगों की नई टीम भेजी है। राज्य में करीब डेढ़ लाख बेघर एवं विस्थापित लोगों ने राहत शिविरों में शरण ले रखी है। एनडीआरएफ की 51 टीमें केरल भेजी गई हैं। रक्षा मंत्रालय ने बताया कि सेना ने 9 अगस्त से अभी तक 3627 लोगों को सुरक्षित निकाला है। केरल की स्थिति को देखते हुए राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन समिति (एनसीएमसी) ने शुक्रवार को भी बैठक की। टीवी चैनलों ने एक गर्भवती महिला को निकालने का दृश्य प्रसारित किया है। जिस समय नौसेना के हेलिकॉप्टर से महिला को निकाला गया उस समय प्रसव पीड़ा शुरू हो चुकी थी। महिला को गिराए गए रस्सी से हवा में झूलते हुए ले जाया गया। महिला का एमनिओटिक थैली फूट गई थी। उसे नौसेना के अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उसने बच्चे को जन्म दिया। अधिकारियों ने बताया है कि जच्चा-बच्चा दोनों सुरक्षित हैं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

शिवराज सिंह चौहान

  शिवराज सिंह चौहान मैं बचपन से ही अपने गाँव से भोपाल पढ़ने चला गया था। भोपाल में मैंने सुना कि भारतीय जनसंघ के अध्यक्ष श्री अटल बिहारी बाजपेयी जी की एक सभा चार बत्ती चौराहे बुधवारे में है। मैंने सोचा चलो भाषण सुन के आएं। अटल जी को जब बोलते सुना तो सुनते ही रह गया।ऐसा लग रहा था कि जैसे कविता उनकी जिव्हा से झर रही है। वो बोल रहे थे,“ये देश केवल जमीन का टुकड़ा नहीं, एक जीता जागता राष्ट्र-पुरुष है, हिमालय इसका मस्तिष्क है, गौरी-शंकर इसकी शिखा हैं, पावस के काले- काले मेघ इसकी केश राशि हैं, दिल्ली दिल है, विंध्यांचल कटि है, नर्मदा करधनी है, पूर्वी घाट और पश्चिमी घाट इसकी दो विशाल जंघाएँ हैं, कन्याकुमारी इसके पंजे हैं, समुद्र इसके चरण पखारता है, सूरज और चन्द्रमा इसकी आरती उतारते हैं, ये वीरों की भूमि है, शूरों की भूमि है, ये अर्पण की भूमि है, तर्पण की भूमि है, इसका कंकर-कंकर हमारे लिए शंकर है, इसका बिंदु-बिंदु हमारे लिए गंगाजल है, हम जियेंगे तो इसके लिए और कभी मरना पड़ा तो मरेंगे भी इसके लिए और मरने के बाद हमारी अस्थियाँ भी अगर समुद्र में विसर्जित की जाएंगी तो वहां से भी एक ही आवाज़ आएगी –“भारत माता की जय, भारत माता की जय”...   इन शब्दों ने मेरा जीवन बदल दिया। राष्ट्र प्रेम की भावना हृदय में कूट-कूट कर भर गई और मैंने फैसला किया कि अब ये जीवन देश के लिए जीना है। ये राजनीति का मेरा पहला पाठ था। इसके बाद से राजनीति में मैं माननीय अटल जी को गुरू मानने लगा. जब भी कभी अटल जी को सुनने का अवसर मिलता, मैं कोई अवसर नहीं चूकता। बचपन में ही भारतीय जनसंघ का सदस्य बन गया, और मैं राजनीति में सक्रिय हो गया। आपातकाल में जेल चला गया, और जेल से निकल कर जनता पार्टी में काम करने लगा, फिर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का पूर्णकालिक कार्यकर्ता बन गया। अटल जी से मेरी पहली व्यक्तिगत बातचीत भोपाल में एक राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के दौरान तब हुई जब मेरी ड्यूटी एक कार्यकर्ता के नाते उनकी चाय नाश्ते की व्यवस्था के लिए की गई।मैं अटल जी के लिए फल, ड्राई फ्रूट इत्यादि दोपहर के विश्राम के बाद खाने के लिए ले गया। तो वे बोले,“क्या घास- फूस खाने के लिए ले आए, अरे भाई, कचौड़ी लाओ, समोसे लाओ, पकोड़े लाओ या फाफड़े लाओ” और तब मैंने उनके लिए नमकीन की व्यवस्था की। एक छोटे से कार्यकर्ता के लिए उनके इतने सहज संवाद ने मेरे मन में उनके प्रति आत्मीयता और आदर का भाव भर दिया। उनके बड़े नेता होने के नाते मेरे मन में जो हिचक थी, वो समाप्त हो गई।   84 के चुनाव में वे ग्वालियर से हार गए थे, लेकिन हारने के बाद उनकी मस्ती और फक्कड़पन देखने के लायक था। जब वो भोपाल आए तो उन्होंने हँसते हुए मुझे कहा, “अरे शिवराज, अब मैं भी बेरोजगार हो गया हूँ”। 1991 में उन्‍होंने विदिशा और लखनऊ, दो जगह से लोकसभा का चुनाव लड़ा, और ये तय किया कि जहां से ज्यादा मतों से चुनाव जीतेंगे, वो सीट अपने पास रखेंगे। मैं उस समय उसी संसदीय क्षेत्र की बुधनी सीट से विधायक था। बुधनी विधानसभा में चुनाव प्रचार की ज़िम्मेदारी तो मेरी थी ही, लेकिन युवा मोर्चा का प्रदेश अध्यक्ष होने के नाते, मुझे पूरे संसदीय क्षेत्र में काम करने का मौक़ा मिला था। उस समय अटल जी से और निकट के रिश्ते बन गए। जब मैं उनके प्रतिद्धन्‍दी से उनकी तुलना करते हुए भाषण देता था, तो मेरे एक वाक्य पर वो बहुत हंसते थे। मैं कहता था,“कहाँ मूंछ का बाल और कहाँ पूंछ का बाल”, तो वो हंसते हुए कहते थे “क्या कहते हो भाई, इसको छोड़ो”।   विदिशा लोकसभा वो एक लाख चार हजार वोट से जीते और लखनऊ एक लाख सोलह हजार से। ज्यादा वोटों से जीतने के कारण उन्होंने लखनऊ सीट अपने पास रखी और विदिशा रिक्त होने पर मुझे विदिशा से उपचुनाव लडवाया। उपचुनाव में जीत कर जब मैं उनसे मिलने गया तो उन्होंने मुझे लाड़ से कहा, “आओ विदिशा-पति”. और तब से वो जब भी मुझसे मिलते तो मुझे विदिशा-पति ही कहते और जब भी मैं विदिशा की कोई छोटी समस्या भी लेकर जाता तो उसे भी वो बड़ी गम्भीरता से लेते। एक बार गंजबासौदा में एक ट्रेन का स्टॉप समाप्त कर दिया था। जब मेरे तत्कालीन रेल मंत्री श्री जाफर शरीफ जी से आग्रह करने बाद भी ट्रेन को दोबारा स्टॉपेज नहीं दिया गया तो मैं अटल जी के पास पहुंचा, और मैंने कहा कि आप इस ट्रेन का स्टॉप फिर से गंजबासौदा में करवाइए। उन्होंने संसद भवन में ही पता लगवाया कि श्री जाफर शरीफ जी कहाँ हैं संयोग से वे संसद भवन में ही थे, अटल जी चाहते तो फोन कर सकते थे। लेकिन फोन करने की बजाय उन्होंने कहा कि चलो सीधे मिल के बात करते हैं। इतने बड़े नेता का एक ट्रेन के स्टॉप के लिए उठकर रेल मंत्री के कक्ष में जाना मुझे आश्चर्यचकित कर गया और तब मैंने जाना कि छोटे-छोटे कामों को करवाने के लिए भी अटल जी कितने गम्भीर थे कि जनता की सुविधा के लिए उन्हें वहां जाने में कोई हिचक नहीं है। मैं भी उनके साथ श्री जाफर शरीफ जी के पास गया और तत्काल जाफर शरीफ जी ने रेल का स्टाफ गंजबासौदा में कर दिया।   2003 में मध्यप्रदेश में विधान सभा के चुनाव थे। उस समय तत्कालीन कांग्रेस की सरकार द्वारा सूखा राहत के लिए राशि केंद्र सरकार से मांगी जा रही थी। हम भाजपा के सांसदों का एक समूह यह सोचता था कि विधान सभा के चुनाव आने के पहले यदि यह राशि राज्य शासन को मिलेगी तो सरकार इस राशि का दुरूपयोग चुनाव जीतने के लिए करेगी, इसलिए कई सांसद मिलकर माननीय अटल जी, जो उस समय प्रधानमंत्री थे, के पास पहुंचे, और उनसे कहा कि इस समय राज्य सरकार को कोई भी अतिरिक्त राशि देना उचित नहीं होगा, तब अटल जी ने हमें समझाते हुए कहा कि लोकतन्त्र में चुनी हुई सरकार किसी भी दल की हो, उस सरकार को मदद करने का कर्त्‍तव्‍य केंद्र सरकार का है, इसलिए ऐसे भाव को मन से त्याग दीजिये।   1998 के अंत में मेरा एक भयानक एक्सीडेंट हुआ। मेरे शरीर में 8 फ्रैक्चर थे। उसी दौरान एक वोट से माननीय अटल जी की सरकार गिर गई। मैं भी स्ट्रेचर पर वोट डालने गया था। तब फिर से चुनाव की घोषणा हुई। मुझे लगा ऐसी हालत में मेरा चुनाव लड़ना उपयुक्त नहीं होगा। मैंने अटल जी से कहा कि इस समय विदिशा से कोई दूसरा उम्मीदवार हमें ढूँढना चाहिए, मेरी हालत चुनाव लड़ने जैसी नहीं है, तब उन्होंने स्नेह से मुझे दुलारते हुए कहा, “खीर में इकट्ठे और महेरी में न्यारे, ये नहीं चलेगा. ...जब तुम अच्छे थे तब तुम्हें चुनाव लड़वाते थे। आज तुम अस्वस्थ हो तब तुम्हें न लड़वाएं, ये नहीं होगा। चुनाव तुम ही लड़ोगे, जितना बने जाना, बाक़ी चिंता पार्टी करेगी”. और मैं अस्वस्थता की अवस्था में भी चुनाव लड़ा और जीता। ऐसे मानवीय थे अटल जी। ऎसी कई स्मृतियाँ आज मस्तिष्क में कौंध रही हैं।   हमारे प्रिय अटल जी नहीं रहे।   सबको अपना मानने वाले, सबको प्यार करने वाले, सबकी चिंता करने वाले, सर्वप्रिय अजातशत्रु राजनेता, उनके लिए कोई पराया नहीं था, सब अपने थे।पूरा जीवन वे देश के लिए जिए। भारतीय संस्कृति, जीवन मूल्यों और परम्पराओं के वे जीवंत प्रतीक थे। भारत माता के पुजारी. उनकी कविता, “हार नहीं मानूँगा, रार नहीं ठानूँगा, काल के कपाल पर लिखता-मिटाता हूँ, गीत नया गाता हूँ”, साहस के साथ हमें काम करने की प्रेरणा देती है।उनके चरणों में शत-शत नमन – प्रणाम |[लेखक मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री हैं ]    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

केरल में बारिश का कहर 73 की मौत

   केरल में लगातार हो रही बारिश से हाल बेहाल हो गए हैं। राज्य में बाढ़ के हालात हैं और नदियों का जलस्तर लगातार बढ़ता जा रहा है। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। बारिश के कारण कोच्चि में एयरपोर्ट के बाद मेट्रो सेवा भी बंद कर दी गई है वहीं मुल्लारपेरियार डैम का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्य के मुख्यमंत्री पी विजयन से फोन पर बात करते हुए हालात का जायजा लिया है साथ ही मदद का आश्वासन दिया है। इसके अलावा उन्होंने रक्षा मंत्रालय को भी राहत कार्य तेज करने के लिए कहा है। राहुल गांधी ने भी ट्वीट कर लिखा है कि उन्होंने पीएम मोदी से इस मुद्दे पर बात कर सेना की मदद बढ़ाने की मांग की है। बारिश के कारण कोच्चि शहर में पानी घुस गया है वहीं आलापुजा के कोल्लाकवाडु में अचनकोइल नदी का जलस्तर बढ़ने से गावों में बाढ़ आ गई है। अब तक इस बारिश के कारण राज्य में 73 लोगों के मारे जाने की सूचना है। अकेले बुधवार को 24 लोगों की मौत हुई थी। बता दें कि केरल सदी की सबसे भीषण बाढ़ की चपेट में आ गया है। राज्य के सभी 14 जिलों में रेड अलर्ट घोषित किया गया है। राज्य में इससे पहले 1924 में बाढ़ से ऐसी ही तबाही मची थी। मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन ने सचिवालय में आपात बैठक की। बैठक में केंद्र से नौसैनिक हवाई अड्डे पर छोटे विमान लैंड कराने की अनुमति मागने का फैसला लिया गया है। कोचीन हवाई अड्डे के प्रवक्ता ने कहा कि लगातार पानी बढ़ने के कारण शनिवार दो बजे दिन तक संचालन निलंबित रहेगा। अधिकारियों ने बुधवार को आने-जाने वाले विमानों को तिरुअनंतपुरम या कोझिकोड डायवर्ट कर दिया। नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने राज्य का आग्रह मानते हुए केरल में अन्य हवाई अड्डों का इस्तेमाल करने की अनुमति दे दी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्य के मुख्यमंत्री विजयन से बातचीत की है। उन्होंने केरल को हर संभव सहायता मुहैया कराने का भरोसा दिया है। नौसेना की 21 टीमें राहत एवं बचाव कार्य में जुटी हैं। नौसेना की टीम ने बाढ़ में फंसे 81 से ज्यादा लोगों को बचा लिया है। एनडीआरएफ की चार और टीमें भेजी गई हैं। इस दक्षिणी राज्य में एक सप्ताह पहले मौसम का रुख आक्रामक हो गया था। अधिकारियों को खतरनाक स्तर तक भर चुके 35 जलाशयों से पानी छोड़ने के लिए विवश होना पड़ा। बांध खोलने के कारण इसकी नदियों का बहाव तीव्र हो गया। मुख्यमंत्री ने कहा, "राज्य के 35 जलाशयों से पानी छोड़ा जा रहा है। राज्य के कई जिले बाढ़ की चपेट में हैं।" मौसम विभाग ने शनिवार तक राज्य में भारी बारिश होने की चेतावनी दी है। पिछले सप्ताह बारिश और बाढ़ की चपेट में आने से सैकड़ों घर तबाह हो गए। मसाले और कॉफी के लिए मशहूर इस राज्य की फसलें भी तबाह हो गई हैं। रात 2.35 पर मुल्लपेरियार बांध का गेट खोलने के बाद इडुक्की जिले में अधिकारी सतर्कता बरत रहे हैं। इस बांध में पानी 142 फीट का स्तर पार कर गया है। मुख्यमंत्री ने अपने पड़ोसी राज्य तमिलनाडु के अपने समकक्ष के. पलानीस्वामी को पत्र भेजकर इसे 139 फीट पर लाने का आग्रह किया है। मुख्यमंत्री विजयन ने कहा कि डेढ़ लाख लोगों को राहत शिविरों में रखा गया है। राज्य के कई हिस्सों में बिजली आपूर्ति, संचार प्रणाली और पेयजल आपूर्ति बाधित हो गई है। कुझितुरै में भूस्खलन के कारण लंबी दूरी की चार गाड़ियां देरी से रवाना हुई। इसके अलावा कुछ यात्री गाड़ियों पर भी आंशिक प्रभाव पड़ा है। कोल्लम-पुनालुर-सेंगोट्टाइ खंड पर रेल सेवा निलंबित कर दी गई है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

atal bihari vajpeyi

देश के पूर्व पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की तबीयत बुधवार से लगातार नाजुक बनी हुई है। इस बीच गुरुवार सुबह से ही एम्स में केंद्रीय मंत्रियों और भाजपा के वरिष्ठ नेताओं का मूवमेंट बढ़ गया है। ताजा जानकारी के अनुसार कुछ समय बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी एम्स पहुंच सकते हैं। हालचल तेज होती नजर आ रही है और एसपीजी की टीम अटल जी के तुगलक रोड़ स्थित घर पहुंच चुकी है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया एम्स पहुंचे। फारुख अब्दुल्ला ने कहा कि हम उनके जल्द स्वस्थ्य होने की कामना करते हैं। वो केवल भारत नहीं पूरी दुनिया में शांति चाहते थे। अटल जी के हालचाल जानने के लिए गृहमंत्री राजनाथ सिंह और जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारुख अब्दुल्ला एम्स पहुंचे। एम्स के बाहर और उस तरफ के रास्तों पर ट्रैफिक डाइवर्ट कर दिया गया है।एम्स से निकलकर अमित शाह सीधे भाजपा मुख्यालय पहुंचे हैं। देशभर में अटल जी के स्वस्थ्य होने की कामना की जा रही है। हमेशा मस्तमौला रहे अटल जी, विमान भटका तो डरने की बजाय सो गए थे एम्स ने अटल जी का मेडिकल बुलेटिन जारी कर दिया है जिसमें कहा गया है कि अटल जी की हालत वैसी है जैसी कल रात को थी। अस्पताल के बाहर हलचल तेज हो गई है, रास्ते बंद कर दिए गए हैं और एम्स के बाहर खड़े वाहनों को हटाया जा रहा है। पुलिस ने भी बैरिकेड्स लगा दिए गए हैं और सुरक्षा भी बढ़ा दी गई है। इसके बाद अब तरह-तरह के कयास लगाए जाने लगे हैं। सुबह उपराष्ट्रपति वैकेंया नायडू के अलावा केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा, मुख्तार अब्बास नकवी, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के अलावा कई वरिष्ठ नेता अटल जी के स्वास्थ्य की जानकारी लेने के लिए एम्स पहुंचे। उनके अलावा भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह भी एम्स पहुंचे और अटल जी के स्वास्थ्य की जानकारी ली। इनके अलावा कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी एम्स जाएंगे। पिछले 66 दिनों से एम्स में भर्ती अटल जी की तबीयत बुधवार को अचानक बिगड़ी और उसके बाद से ही उन्हें लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया है। जानकारी के अनुसार उनकी देखरेख में लगी डॉक्टर्स की टीम वाजपेयी के स्वास्थ्य पर लगातार नजर बनाए हुए हैं। अटल जी के स्वास्थ्य की सूचना के बाद देर शाम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उनके स्वास्थ्य की जानकारी लेने के लिए एम्स पहुंचे। उन्होंने करीब एक घंटे तक एम्स के डॉक्टरों से वाजपेयी के स्वास्थ्य पर चर्चा की। रात करीब दस बजे एम्स प्रशासन की ओर से बताया गया कि अटल की तबीयत पिछले 24 घंटे से बेहद गंभीर है। जानकारी के अनुसार आज सुबह एम्स की तरफ से अटल जी के स्वास्थ्य को लेकर अपडेट आ सकता है। बुधवार दोपहर भारत रत्न व पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की तबीयत खराब होने की खबरों के बीच केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी एम्स पहुंचीं। उन्होंने अटल के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली। इस बीच शाम तक एम्स के बाहर मीडिया का जमावड़ा लग गया। शाम करीब सात बजे वाजपेयी के स्वास्थ्य का हाल जानने के लिए पीएम मोदी बिना ट्रैफिक रूट के ही अचानक एम्स पहुंचे और करीब आठ बजे तक रुके। इसके बाद रात करीब दस बजे एम्स प्रशासन की ओर से मेडिकल बुलेटिन जारी कर बताया गया कि वाजपेयी पिछले 24 घंटे के दौरान उनकी हालत ज्यादा गंभीर हो गई है। उन्हें जीवन रक्षक उपकरणों की सहायता दी जा रही है। गौरतलब है कि पूर्व प्रधानमंत्री पिछले दो माह से एम्स में भर्ती हैं। विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम उनके स्वास्थ्य की लगातार निगरानी कर रही है। उन्हें सांस लेने में परेशानी, यूरीन व किडनी में संक्रमण होने के कारण 11 जून को एम्स में भर्ती किया गया था।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

loksabha scst

लोकसभा में अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) संशोधन विधेयक पारित होने का स्वागत करते हुए बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने कहा कि गत दो अप्रैल के सफल भारत बंद के दबाव में ही बिल को पारित कराया गया। उन्होंने राज्यसभा में भी पारित होने की उम्मीद जताते हुए गरीब मुस्लिमों को आरक्षण देने की मांग भी की। एक बयान में मायावती ने बिल पारित होने पर सभी लोकसभा सदस्यों को धन्यवाद देते हुए कहा कि उम्मीद है, यह बिल राज्यसभा द्वारा भी पारित करा दिया जाएगा। इससे दलित वर्ग के लोगों को मदद मिल सकेगी। लोकसभा सदस्यों का आभार जताने के बाद मायावती गत दो अप्रैल को हुए भारत बंद को विधेयक पारित होने का श्रेय देना नहीं भूलीं। उन्होंने कहा कि उन लोगों को धन्यवाद, जिन्होंने गत दो अप्रैल को सफलतापूर्वक भारत बंद का आयोजन किया था। इससे ही केंद्र सरकार पर बिल पास कराने का दबाव बढ़ा। मायावती ने कहा कि सफलता का श्रेय देशवासियों के साथ बड़ी संख्या में बसपा कार्यकर्ताओं को भी दिया जाएगा जो भारत बंद में शामिल रहे। बसपा प्रमुख ने नौकरियों में प्रमोशन में आ रही बाधाओं को दूर करने की मांग को भी दोहराया। उनका कहना था कि भाजपा ऐसा नहीं करती है तो उसकी नीयत और नीति पर संदेह बना रहेगा। मायावती ने आरक्षण के मुद्दे को हवा देते हुए आर्थिक आधार पर आरक्षण को मजबूती से उठाया। सर्वसमाज (अपरकास्ट) के गरीबों को अलग आरक्षण सुविधा देने में अन्य धार्मिक अल्पसंख्यकों को शामिल करने की मांग की। उनका कहना था कि गरीब मुस्लिमों को आर्थिक आरक्षण लाभ दिलाने को संविधान संशोधन किया जाता है तो बसपा हर स्तर पर समर्थन करेगी।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

bjp

भारतीय जनता पार्टी 15 से 30 अगस्त तक "सामाजिक न्याय पखवाड़ा" मनाएगी। ओबीसी आयोग के सशक्तीकरण संबंधी बिल के पारित होने के उपलक्ष्य में अगले साल से भाजपा एक-नौ अगस्त तक सामाजिक सप्ताह मनाया करेगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को भाजपा संसदीय दल की बैठक में इस बात की घोषणा करते हुए कहा कि भाजपा सांसद इस दौरान अपने क्षेत्रों में इस विधेयक के प्रभाव पर नजर रखें। देश के हर कोने में जाकर लोगों को सामाजिक न्याय के इस फैसले से अवगत कराना होगा। उन्होंने कहा कि इतिहास में मौजूदा मानसून सत्र भी "सामाजिक न्याय के सत्र" के रूप में याद किया जाएगा। संसदीय मामलों के मंत्री अनंत कुमार ने बताया कि एक ऐतिहासिक विधेयक पारित हो चुका है और दूसरा एक या दो दिन में पारित होने वाला है। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी ने बैठक में याद दिलाया कि 2014 के चुनावों में भाजपा की विजय पर उन्होंने कहा था कि उनकी सरकार गरीबों, ग्रामीणों और समाज के पिछड़े वर्ग के लिए समर्पित रहेगी। यह विधेयक उनकी उसी प्रतिबद्धता की पुष्टि करते हैं। भाजपा संसदीय दल ने एक प्रस्ताव पारित करके सरकार के इस बिल को पारित कराने पर सराहना की। ऐसा दूसरी बार हुआ जब भाजपा संसदीय दल की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सम्मानित किया गया। उल्लेखनीय है कि इसी सोमवार को संसद में पिछड़े वर्ग के राष्ट्रीय आयोग को संवैधानिक दर्जा दिया गया है। इसी दिन लोकसभा ने भी अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति (उत्पीड़न निरोधक) संशोधन बिल को पारित किया। सोमवार को ही राज्यसभा ने ध्वनिमत से संविधान के 123वें संशोधन बिल को पारित करके पिछड़े वर्ग के राष्ट्रीय आयोग को संवैधानिक दर्जा दिया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन

चेंबूर में भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन की रिफाइनरी के हाईड्रो क्रैकर प्लांट में आग लग गई है। 9 फायर टेंडर्स और दो फोम टेंडर्स आग बुझाने के काम में जुटे हुए हैं और हालात नियंत्रण में हैं। इस हादसे में अब तक 21 लोगों के घायल होने की जानकारी सामने आई है। जिसमें एक की हालत गंभीर है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

वसुंधरा राजे की राजस्थान गौरव यात्रा

जयपुर में शनिवार को राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की राजस्थान गौरव यात्रा की शुरुआत हो गई है। सीएम वसुंधरा की ये यात्रा 165 विधानसभा सीटों से होकर गुजरेगी। ऐसे में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह खुद इस यात्रा की शुरुआत में शामिल हुए। सीएम वसुंधरा और अमित शाह ने राजसमंद जिले में स्थित चारभुजाजी मंदिर में दर्शन-पूजन के साथ ही इस यात्रा की शुरुआत की। इस मौके पर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने एक बार फिर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को जमकर कोसा। उन्होंने राहुल गांधी पर चुटकी लेते हुए कहा कि, "राहुल बाबा अगर आपको गिनती आती है, क्योंकि मैं तो इटेलियन नहीं जानता, वरना इसी भाषा में आपको ये बताका कि हमारी सरकार ने जनता को कितनी सौगातें दी हैं। मोदी सरकार ने अकेले राजस्थान में 116 जनकल्य़ाणकारी योजनाओं की शुरुआत की, इसके बाद कांग्रेस पूछती है कि भाजपा ने क्या किया?" शाह यहीं नही रूके, "राजसमंद की रैली में राहुल गांधी को लेकर उन्होंने कहा कि, राहुल बाबा हमसे चार साल का क्या हिसाब मांगते हो? देश की जनता आपसे चार पीढ़ी का हिसाब मांग रही है। राजपूत मतदाताओं का गढ़ समझे जाने वाले राजसमंद में वसुंधरा ने महाराणा प्रताप, राणा कुंभा, भामाशाह, पन्ना धाय को नमन कर अपना मकसद भी साफ कर दिया। वसुंधरा राजे की यह बहुप्रचारित 'राजस्थान गौरव यात्रा' अगले 40 दिन तक 165 विधानसभा सीटों से होकर गुजरेगी। बता दें कि राजस्‍थान में विधानसभा की कुल 200 सीटें हैं। इस 6,000 किमी. यात्रा में राजे 135 रैलियों को संबोधित कर सकती हैं। वहीं यात्रा की शुरुआत करते हुए अमित शाह ने वसुंधरा राजे के काम की प्रशंसा की। उन्‍होंने कहा, 'राजस्थान में जिस प्रकार से बीजेपी सरकार चली है, उससे मुझे भरोसा है कि यहां की जनता एक बार फिर कमल के फूल की सरकार बनाकर नया इतिहास रचेगी।' अमित शाह ने रैली के दौरान असम के एनआरसी ड्राफ्ट का मुद्दा भी उठाया और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से जवाब मांगा। अमित शाह ने कहा, "देश की सुरक्षा का सवाल है , लेकिन कांग्रेस को एनआरसी मुद्दे पर वोट बैंक दिखाई दे रहा है। मैं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से पूछना चाहता हूं कि आप एनआरसी के मामले पर अपना स्टैंड क्यों नहीं क्लीयर कर रहे हैं। इसीलिये कि आपको उसमें अपना वोट बैंक नजर आ रहा है।" इस यात्रा में वसुंधरा की कोशिश जनता के साथ सीधा संवाद साधने की रहेगी। इस दौरान उनका राज्‍य के प्रमुख मंदिरों में दर्शन-पूजन जारी रहेगा। चारभुजाजी मंदिर में दर्शन करने के बाद मुख्यमंत्री कांकरोली स्थित द्वारकाधीश मंदिर में दर्शन करेंगी। इसके बाद नाथद्वारा के लिए रवाना हो जाएंगी। प्रदेश में इस साल होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले बीजेपी की इस यात्रा को शक्ति परीक्षण के रूप में देखा जा रहा है। इस यात्रा के महत्‍व का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि खुद अमित शाह इस रैली को रवाना करने के लिए राजसमंद पहुंचे हैं। बीजेपी की कोशिश राज्‍य में 180 सीटें जीतकर फिर से सत्‍ता में आने की है। बीजेपी को पिछले चुनाव में 163 सीटें मिली थीं। अब तक राज्य में सिर्फ एक बार बीजेपी लगातार सत्ता में आई है। उस समय पूर्व राष्ट्रपति और बीजेपी के दिग्गज नेता भैरों सिंह शेखावत ने 1990-92 तक शासन करने के बाद 1993 में सत्ता में वापसी की थी। दरअसल, वसुंधरा की इस यात्रा का मकसद राजपूत मतदाताओं का साधना है। राजपूत राज्‍य की कुल जनसंख्‍या का 7 प्रतिशत हैं और हाल के दिनों में हुई घटनाओं की वजह से बीजेपी से नाराज चल रहे हैं। वसुंधरा ने पिछले दिनों जोधपुर से राजपूत समुदाय के प्रभावशाली नेता गजेंद्र सिंह शेखावत को राजस्‍थान बीजेपी का अध्‍यक्ष बनाए जाने का विरोध किया था। इससे राजपूतों में उनकी छवि और ज्‍यादा खराब हो गई है। यही नहीं राजपूत समुदाय गैंगस्‍टर आनंद पाल सिंह के कथित फर्जी मुठभेड़ से भी नाराज है। यही नहीं देशभर में पद्मावत फिल्‍म दिखाए जाने से भी कई राजपूत बीजेपी से नाराज बताए जा रहे हैं। राजस्‍थान सरकार ने जयपुर के शाही परिवार के राज महल पैलेस को पिछले दिनों सील कर दिया था, इससे उनके राजपूत नेताओं से संबंध और भी ज्‍यादा खराब हो गए। हाल ही में हुए उपचुनाव में भी वसुंधरा सरकार को राजपूत मतदाताओं के कोपभाजन का शिकार होना पड़ा था। बीजेपी को सभी तीन उपचुनावों में कांग्रेस के हाथों मात खानी पड़ी। केंद्र और आरएसएस के साथ अपने संबंधों के कारण वसुंधरा अब कोई रिस्‍क नहीं लेना चाहती हैं और माना जा रहा है कि राजपूतों को फिर से साधने के लिए वसुंधरा राजे यात्रा निकाल रही हैं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

कमलनाथ ,भूरिया और सिंधिया को घरेने का प्लान

  मध्यप्रदेश कांग्रेस के दिग्गज नेताओं ज्योतिरादित्य सिंधिया, कमलनाथ और कांतिलाल भूरिया को उनके क्षेत्र में घेरने के लिए भाजपा ने तैयारी शुरू कर दी है। कांग्रेस की परम्परागत सीटों को छीनने के लिए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह द्वारा छिंदवाड़ा, गुना और झाबुआ लोकसभा सीट के प्रभारी बनाए गए उत्तर प्रदेश सरकार के परिवहन मंत्री स्वतंत्रदेव सिंह शुक्रवार को गुना पहुंचे। उन्होंने गुना-शिवपुरी लोकसभा क्षेत्र के कार्यकर्ताओं की बैठक ली। शनिवार को वे रतलाम-आलीराजपुर लोकसभा सीट के पेटलावद में रहेंगे और 6 अगस्त को छिंदवाड़ा का दौरा करेंगे। ज्योतिरादित्य सिंधिया की गुना शिवपुरी सीट जीतने की रणनीति के तहत कुछ दिनों पहले केंद्रीय भूतल एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस क्षेत्र में 3500 करोड़ से ज्यादा के विकास कार्यों का लोकार्पण एवं भूमिपूजन किया था। पिछोर में भी मुख्यमंत्री ने किसानों को प्रोत्साहन राशि बांटी। प्रदेश के मंत्री जयभान सिंह पवैया भी दौरा कर रहे हैं। पार्टी ने 2019 के लोस चुनाव में प्रदेश की सभी 29 सीटों को जीतने का लक्ष्य रखा है। इसके तहत सिंधिया सहित प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ की छिंदवाड़ा और आदिवासी नेता कांतिलाल भूरिया की रतलाम-आलीराजपुर सीट को भी कांग्रेस से छीनने के लिए तीनों नेताओं की घेराबंदी की जा रही है। स्वतंत्रदेव सिंह ने संसदीय क्षेत्र के पदाधिकारियों की बैठक ली। इस दौरान उन्होंने एक साल पहले चंदेरी में हुई बैठक में सौंपे दायित्वों की समीक्षा की। साथ ही सरकार की योजनाओं के नाम पूछे। पं. दीनदयाल पुण्यतिथि पर पंचायतों में पदाधिकारियों द्वारा दिए गए भाषण को रिपीट कराया, लेकिन पदाधिकारी दोनों ही सवालों के जवाब देने में फेल हो गए। सिंह ने करीब एक साल पहले चंदेरी में गुना-शिवपुरी संसदीय क्षेत्र के पदाधिकारियों की बैठक ली थी। इस दौरान उन्होंने पदाधिकारियों को विधानसभा स्तर पर संगठनात्मक संरचना तैयार करने को कहा था। सवालों का जवाब न मिलने पर सिंह ने पदाधिकारियों को नसीहत दी कि पार्टी की योजनाओं और संगठन की पूरी जानकारी होना चाहिए। सरकार की योजनाओं के लिए 12 प्रभारी बनाए है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

modi-imran khan

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ(पीटीआई) के चेयरमैन इमरान खान से बात की। पाकिस्तान में हुए आम चुनाव के बाद पीएम मोदी ने इमरान खान को फोन कर उन्हें जीत की बधाई दी है। मोदी ने इमरान से कहा, 'मैं आशा करता हूं कि पाकिस्तान में लोकंतत्र की जड़ें और मजबूत होंगी।' बतादें कि पाकिस्तान में हाल ही में हुए चुनाव में इमरान खान की पीटीआई सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। पाक संसद में सबसे पड़ी पार्टी बनकर उभरी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआइ) के अध्यक्ष इमरान खान ने कहा है कि वे 11 अगस्त को प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे। रेडियो पाकिस्तान ने खुद इमरान के हवाले से कहा कि वे 11 अगस्त को पदभार संभालेंगे। सोमवार को खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के नवनिर्वाचित पार्टी विधायकों को संबोधित करते हुए पीटीआइ नेता ने कहा कि मैंने राज्य के अगले मुख्यमंत्री का फैसला कर लिया है। अगले 48 घंटों के अंदर उनके नाम का एलान कर दिया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि सिंध प्रांत की गरीबी खत्म करना उनकी सरकार की प्राथमिकताओं में शामिल होगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

यमुना

  दिल्ली में यमुना का जलस्तर लगातार बढ़ता जा रहा है। हरियाणा के हथनी बैराज कुंड से छोड़े गए पानी के कारण जलस्तर खतरे के निशान से दो मीटर ऊपर चला गया है। मंगलावार सुबह यह स्तर 206 मीटर पर था जिसके बाद राजधानी में बाढ़ का खतरा और ज्यादा बढ़ गया है। वहीं खबर है कि राजधानी और यमुना किनारे बसे कई निचले इलाकों और गावों में पानी भरने लगा है। स्थिति को देखते हुए पुराने यमुना पुल पर से आवागमन बंद कर दिया गया है। मौजूदा हालात को देखते हुए कहा जा रहा है कि रेलवे ने एक बार परिचालन बंद करने के बाद पुराने पुल से परिचालन भले ही दोबारा शुरू कर दिया है पर यदि यमुना का जलस्तर और बढ़ा तो परिचालन जारी रखना आसान नहीं होगा। इसलिए दिल्ली सरकार के सिंचाई व बाढ़ नियंत्रण विभाग के कंट्रोल रूप से रेलवे को पल- पल की जानकारी दी जा रही है। हालांकि हथनी कुंड बैराज से पिछले दो दिन के मुकाबले अब थोड़ा कम पानी छोड़ा जा रहा है। बाढ़ नियंत्रण विभाग का कहना है कि बैराज से दो दिन काफी पानी छोड़ा गया था। 28 जुलाई की शाम सात बजे 6,05,949 क्यूसेक, 29 जुलाई सुबह 8 बजे 2,42,657 क्यूसेक व शाम को 1,10,248 क्यूसेक पानी छोड़ा गया था। यह पानी दिल्ली पहुंचेगा तो जल स्तर अचानक 206.50 मीटर तक पहुंचने की आशंका है। हथनी कुंड बैराज से सोमवार को अधिकतम 52,279 क्यूसेक पानी सुबह पांच बजे छोड़ा गया। शाम सात बजे 28,421 क्यूसेक पानी छोड़ा गया है। जलस्तर बढ़ने से यमुना के निचले इलाकों में पानी भर गया है और अवैध रूप से बसी झुग्गियों में पानी भर गया है। अब तक करीब 10 हजार परिवारों को हटाया गया है। आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के अनुसार यमुना में सबसे अधिक उफान वर्ष 1978 में आया था। तब यमुना का जलस्तर 207.49 मीटर तक पहुंच गया था। इसके बाद वर्ष 2010 में 207.11 मीटर व वर्ष 2013 में जलस्तर 207.32 मीटर तक पहुंचा था।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

भारतीय शेयर बाजार

  गुरुवार के कारोबारी दिन भारतीय शेयर बाजार ने एक नया इतिहास रच दिया। तेजी के साथ खुला शेयर बाजार कुछ ही देर में रिकॉर्ड 37000 के स्तर को पार कर गया। यह पहली बार है जब सेंसेक्स ने यह स्तर छुआ है। हालांकि, कुछ देर बाद यह इस स्तर के नीचे कारोबार करने लगा। खबर लिखे जाने तक प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 96 अंकों की तेजी के साथ 36955 के स्तर पर कारोबार कर रहा था वहीं निफ्टी 36 अंकों की बढ़त के साथ 11,168 पर कारोबार कर रहा है। निफ्टी के मिडकैप और स्मालकैप दोनों शेयर्स में तेजी दिख रही है। निफ्टी का मिडकैप 0.12 फीसद की तेजी और स्मालकैप 0.25 फीसद की तेजी के साथ कारोबार कर रहा है। आईटी और मेटल में गिरावट: अगर सेक्टोरियल इंडेक्स की बात करें तो आईटी, मेटल और फार्मा को छोड़ सब हरे निशान में कारोबार कर रहे हैं। निफ्टी ऑटो में 0.54 फीसद की तेजी, निफ्टी फाइनेंस सर्विस में 0.29 फीसद की तेजी, निफ्टी एफएमसीजी में 0.61 फीसद की तेजी और रियल्टी में 0.59 फीसद की तेजी दिख रही है। वहीं निफ्टी आईटी 0.46 फीसद, निफ्टी मेटल 0.17 फीसद और निफ्टी फार्मा में 0.05 फीसद की गिरावट जारी है। एशियाई बाजारों का हाल: सुबह के 9 बजे जापान का निक्केई 0.10 फीसद की गिरावट के साथ 22592, चीन का शांघाई 0.59 फीसद की गिरावट के साथ 2886, हैंगसेंग 0.63 फीसद की गिरावट के साथ 182.88 और ताइवान का कोस्पी 0.56 फीसद की बढ़त के साथ 2285 पर कारोबार करता देखा गया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

rahul gandhi

  संसद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गले लगाने को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भाजपा नेताओं पर तंज कसा है। उन्होंने बुधवार को दिल्ली में कहा कि अब तो भाजपा के सांसद उन्हें देखते ही डर से दो कदम पीछे हट जाते हैं कि कहीं वह उन्हें गले न लगा लें। पिछले सप्ताह लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष प्रधानमंत्री की सीट तक गए और उन्हें गले से लगाया। उनके इस कदम की भाजपा नेताओं ने आलोचना की थी। राहुल ने कहा कि सत्ताधारी दल के नेताओं से उनकी राय भिन्न हो सकती है और वह उनसे लड़ सकते हैं, लेकिन उनसे नफरत करने की कोई जरूरत नहीं है। एक पुस्तक विमोचन समारोह में पहुंचे राहुल ने कहा कि वह लालकृष्ण आडवाणी से असहमत हो सकते हैं। देश के बारे में जो आडवाणी के विचार हैं उनसे उनके विचार पूरी तरह भिन्न हैं। वह हर कदम पर आडवाणी से लड़ सकते हैं, लेकिन उनसे नफरत करने की कोई जरूरत नहीं है। समारोह में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, पूर्व उपप्रधानमंत्री लाल कृष्ण आडवाणी, पूर्व उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी, अहमद पटेल, दिग्विजय सिंह, मनीष तिवारी, शशि थरूर और माकपा नेता सीताराम येचुरी आदि मौजूद थे। कांग्रेस अध्यक्ष ने बुधवार को भी राफेल सौदे को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा। एक ट्वीट में राहुल ने मीडिया रिपोर्ट का हवाला दिया है। रिपोर्ट में आरोप लगाया गया है कि प्रधानमंत्री ने जब राफेल सौदे की घोषणा की थी उसके कुछ ही दिनों पहले प्रमुख उद्योगपति ने एक कंपनी शुरू की थी। उनका इशारा रिलायंस समूह की ओर था।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

अलवर मॉब लिंचिंग

अलवर मॉब लिंचिंग का मामला सामने आने के बाद इस पर देश में फिर से बहस छिड़ गई है। संसद से लेकर सड़क तक इस मॉब लिंचिंग को लेकर बात हो रही है। इस बीच चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया दीपक मिश्रा ने मॉब लिंचिंग पर अपनी बात रखी है। सीजेआई ने कहा कि, "हाल के दिनों में देश में मॉब लिंचिंग की घटनाएं बढ़ी हैं। मुझे गलत न समझा जाए, क्योंकि मैंने इस मामले पर फैसला सुनाया है। हाल के दिनों में सोशल मीडिया पर अफवाहों के फैलने की वजह से कई लोगों को जान गई है। इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि, सोशल मीडिया पर जिस तरह लोग विश्वास कर रहे हैं, उस पर नजर रखना जरूरी है, ताकि समाज में शांति और कानून-व्यवस्था बनाई रखी जा सके।" इससे पहले लोकसभा में देश के कुछ हिस्सों में भीड़ द्वारा पीट-पीटकर हत्या के मामलों का मुद्दा मंगलवार को एक बार फिर उठा तथा गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने सदन को सरकार द्वारा सख्त कदम उठाने का अश्वासन देते हुए कहा कि अगर जरूरत हुई तो ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए कानून भी बनाया जाएगा।  राजनाथ सिंह ने कहा कि," इस तरह के मामलों पर रिपोर्ट देने के लिए गृह मंत्री की अध्यक्षता में मंत्रिसमूह (जीओएम) और गृह सचिव की अगुवाई में एक समिति का गठन किया है, जो चार हफ्ते में रिपोर्ट पेश करेगी।"

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

ट्रकों की हड़ताल

  बीते तीन दिनों से जारी ट्रकों की हड़ताल के देश को रोजाना 10 हजार करोड़ रुपए का नुकसान हो रहा है। मगर, अभी तक ट्रांसपोर्टर्स की हड़ताल खत्म नहीं हुई है। खबरों के मुताबिक, हड़ताल के तीसरे दिन ट्रेड-इंडस्ट्री की सप्लाई पर असर साफ दिखा। ज्यादातर बड़े उद्योग-व्यापार केंद्रों पर बुकिंग, लोडिंग, अनलोडिंग में 70 फीसद की कमी दर्ज की गई। हाालंकि, बीते दो दिन वीकेंड होने की वजह से हड़ताल का वास्तविक असर लोगों को नहीं दिखा। मगर, सोमवार से हड़ताल का असर देखने को मिलेगा। हड़तालियों और सरकार के बीच फिलहाल किसी तरह की सहमति बनती नहीं दिख रही है। ऐसे में हड़ताल के लंबा खिंचने की आशंका भी जताई जा रही है। संगठन का दावा है किया कि उससे करीब 93 लाख ट्रक चालक जुड़े हुए हैं. हालांकि इंडियन फाउंडेशन ऑफ ट्रांसपोर्ट रिसर्च एंड ट्रेनिंग ने कहा कि दिल्ली समेत देश भर में हड़ताल का आंशिक असर हुआ है। हड़ताल के चलते कई जगह रास्ते में इनके भरे हुए ट्रक खड़े हैं तो कई जगह से रवाना नहीं हुए। ऑपरेटर्स की मांग है डीजल की कीमतें कम हो ,टोल प्लाजा पर बैरियर बंद हो ,ट्रांसपोर्टरों पर टीडीएस खत्म हो ,थर्ड पार्टी बीमा में जीएसटी की छूट हो|  दूसरी ओर ट्रेड-इंडस्ट्री ने हड़ताल पर चिंता जताई है। उन्होंने परिवहन मंत्री नितिन गडकरी से मामले में दखल देने की अपील की है। ज्यादातर ट्रांसपोर्टर बुकिंग नहीं ले रहे हैं और जो छिटपुट ऑपरेटर चल रहे हैं, वे ज्यादा चार्ज कर रहे हैं। हड़ताल जारी रही, तो बिजनेस के अलावा आम उपभोक्ता को भी इसकी कीमत चुकानी पड़ेगी। इंडियन फाउंडेशन ऑफ ट्रांसपॉर्ट रिसर्च एंड ट्रेनिंग के आकलन के मुताबिक, फल-जब्जी, दूध, दवाइयां और अन्य जरूरी चीजों के हड़ताल से बाहर होने के चलते अभी उपभोक्ता स्तर पर इसका कोई खास प्रभाव नहीं दिख रहा है। जानकार यह भी कह रहे हैं कि पहले दो-तीन दिन के लिए इंडस्ट्री पहले से तैयार थी। मगर, अब सप्लाई खत्म होने के बाद मुश्किलें बढ़ेंगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

अविश्वास प्रस्ताव

  टीडीपी ने केंद्र सरकार पर आंध्र प्रदेश से धोखा देने का आरोप लगाया है। टीडीपी ने सरकार के खिलाफ संसद में अविश्वास प्रस्ताव पेश कर दिया है। पार्टी की तरफ से पहली बार के सांसद जयदेव गाला ने बहस की शुरुआत की। टीडीपी सांसद ने सरकार को घेरते हुए कहा कि, "आंध्र प्रदेश के साथ सरकार ने न्याय नहीं किया है। पांच करोड़ जनता के साथ अन्याय हुआ है। तेलंगाना नहीं, आंध्र प्रदेश नया राज्य बना है। सरकार ने आंध्र प्रदेश से किए गए वादों को पूरा नहीं किया है। आंध्र प्रदेश पर भारी बोझ है। इस राज्य ने बहुत कुछ गंवाया है।" टीडीपी सांसद जयदेव गाला ने पीएम मोदी पर आरोप लगाते हुए कहा कि, "आप अलग धुन में बात कर रहे हैं, जिसे आंध्र प्रदेश की जनता समझ रही है और आने वाले चुनाव में उसका मुंहतोड़ जवाब देगी। भाजपा का भी वैसा ही हाल होगा, जैसा कांग्रेस का आंध्र प्रदेश में हुआ था। पीएम मोदी ये धमकी नहीं, ये शाप है।" जयदेव गाला आंध्र प्रदेश के अरबपति उद्योपति हैं। वो गुंटूर से सांसद हैं। जानिए उनके भाषण की खास बातें- आंध्र प्रदेश के लोग सच में पीड़ा में है,केंद्र की तरफ से आंध्र को एक पैसा भी नहीं मिला है, हम धमकी नहीं, शाप दे रहे हैं, मोदी सरकार ने आंध्र से किया वादा पूरा नहीं किया है, ये जंग तानाशाह और लोकतंत्र के बीच है, वित्त मंत्री तथ्यों से खेलना बंद करें, हमारे पास ऐसे सबूत हैं कि आंखें खुल जाएंगी, विकास के सूचकांक पर आंध्र बहुत पीछे है,हाथ जोड़कर विनती की आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य दर्जा दें |  सदन के भीतर भी कांग्रेस नेता मल्लिकाअर्जुन खड़गे ने अविश्वास प्रस्ताव पर कम समय देने को लेकर शिकायत की। उन्होंने कहा कि, कांग्रेस को जो वक्त दिया गया है, वो काफी कम है। इस पर से पाबंदी हटनी चाहिए। इस बीच बीजेडी सांसदों ने सदन से वॉकआउट कर दिया। लोकसभा की कार्यवाही से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में वरिष्ठ भाजपा नेताओं की संसद में बैठक चल रही है। इस बैठक में राजनाथ सिंह और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह मौजूद हैं। वहीं केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने अविश्वास प्रस्ताव पर कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि, देश का विश्वास पीएम के साथ है। ईमानदारी से काम करने पर कांग्रेस को परेशानी हो रही है। सदन में सरकार के पास बहुमत है। वहीं राहुल गांधी पर भी उन्होंने कटाक्ष करते हुए कहा कि, "देखते हैं कि राहुल गांधी के बोलने से कितना बड़ा भूचाल आता है।" सरकार की अहम सहयोगी शिवसेना ने अविश्वास प्रस्ताव पर अपना रुख साफ कर दिया है। संसदीय दल की बैठक में पार्टी प्रमुख उद्वव ठाकरे ने फैसला लिया कि शिवसेना अविश्वास प्रस्ताव पर तटस्थ रहेगी। शिवसेना के प्रवक्ता संजय राउत ने पार्टी का रुख स्पष्ट करते हुए कहा कि, "शिवसेना वोटिंग के दौरान गैर हाजिर रहेगी। इसके लिए सांसदों को निर्देश दिए जा चुके हैं। राउत ने कहा कि, सरकार जनता का भरोसा खो चुकी है। सबका पता है कि अविश्वास प्रस्ताव गिर जाएगा, मगर लोकतंत्र में सबको बोलने का अधिकार होता है।" वहीं कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि, "सरकार ने सामाजिक ताने-बाने को नुकसान पहुंचाया है। आज किसान, युवा सब परेशान हैं। ऐसे में सरकार जनता का विश्वास खो चुकी है।" इस बीच भाजपा की तरफ से लोकसभा में राजनाथ सिंह, राकेश सिंह, वीरेंद्र सिंह और अर्जुन मेघवाल अविश्वास प्रस्ताव पर बोलेंगे। वहीं शाम को प्रधानमंत्री मोदी भी अविश्वास प्रस्ताव पर अपनी बात रखेंगे। भाजपा नेता अनंत कुमार ने कहा कि सरकार के पास बहुमत है।भाजपा अध्यक्ष अमित साह अन्य नेताओं के साथ संसद पहुंचे। मीडिया के सवालों का जवाब नहीं दिया लेकिन विक्ट्री साइन दिखाया।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

naxali ganpati

  देश में सक्रिय लाल आतंकी संगठन के सुप्रीमो गणपति को केंद्रीय व नौ राज्यों की खुफिया एजेंसी और पुलिस 40 वर्षों में तलाश नहीं पाई है। यहां तक पुलिस या एजेंसियों के पास उसकी कोई ताजा फोटो भी नहीं है। एकमात्र फोटो है, वह भी करीब 20 से 25 साल पुरानी है। इसी से अंदाजा लगाया जा सकता है कि गणपति कितना तेज है और उसकी सुरक्षा कितनी तगड़ी है। छत्तीसगढ़ के प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल को कथित रूप से चुनावी मदद के ऑफर की वजह से गणपति इस वक्त सुर्खियां में है। गणपति यानी भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (माओवादी) की केंद्रीय कमेटी का महासचिव मुपल्ला लक्ष्मण राव, ऊर्फ गणपति ऊर्फ लक्ष्मण राव, ऊर्फ राजि रेड्डी, ऊर्फ श्रीनिवास राव। मूतलः आंध्रप्रदेश के करीमनगर का रहने वाला है। पुलिस के पास उपलब्ध रिकार्ड के अनुसार साइंस स्नातक गणपति बीएड के बाद शिक्षक बना, लेकिन बाद में नक्सली संगठन से जुड़ गया। करीब तीन करोड़ 60 लाख का इनामी गणपति की उम्र अभी करीब 70 वर्ष है। 1977 में पहली बार उसे पकड़ा गया था। 1979 में वह जमानत पर रिहा हुआ, उसके बाद से कभी पुलिस के हाथ नहीं आया। देश में सक्रिय नक्सली संगठनों के गठजोड़ से 2004 में सीपीआई (माओवादी) खड़ी हुई है। गणपति को उसी साल इसकी केंद्रीय कमेटी का महासचिव बनाया गया, उसके बाद से वह लगातार इस पद पर बना हुआ है। केंद्रीय व आंधप्रदेश की खुफिया एजेंसियों के हवाले से मिली खबरों के अनुसार गणपति गंभीर रुप से बीमार है। उसकी किडनी खराब हो गई है, घुटने में दिक्कत है, शुगर और बीपी कभी भी शिकायत है। फिलहाल उसकी स्थिति चलने- फिरने की नहीं है। लंबे समय से संगठन की गतिविधियों से भी वह दूर है। इसी वजह से केंद्रीय कमेटी में दूसरे नंबर के सदस्य नंबाला केशव राव को संगठन की कमान सौंपी गई है। राव नक्सलियों की सेंट्रल मिलिट्री कमीशन के महासचिव है। गणपति का नवंबर 2016 के बाद से कोई बयान नहीं आया है। नवंबर में गणपति ने नोटबंदी समेत मोदी सरकार के कई फैसलों पर अपनी प्रतिक्रिया दी थी।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

रोशन होंगे अब देशभर के सभी सरकारी स्कूल

स्कूलों को स्मार्ट बनाने में जुटी केंद्र सरकार ने पहली खेप में देशभर के सभी स्कूलों को बिजली से लैस करने का फैसला लिया है। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये राज्यों के साथ बातचीत में यह निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि इसके लिए राज्यों के बजट को भी बढ़ाया गया है। ऐसे में सभी राज्य यह सुनिश्चित करें कि उनके सभी स्कूलों में बिजली उपलब्ध हो। साथ ही उन्होंने राज्यों से शिक्षा में सुधार को लेकर उठाए गए कदमों को भी अपनाने के लिए कहा है। जावड़ेकर सोमवार को सभी राज्यों के शिक्षा मंत्रियों के साथ 117 पिछड़े जिलों में शिक्षा से जुड़ी योजनाओं को लेकर चर्चा कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने समग्र शिक्षा अभियान के तहत शिक्षा की गुणवत्ता सुधारने के लिए उठाए गए कदमों की जानकारी दी। साथ ही बताया कि गुणवत्ता के साथ सरकार स्कूलों के इंफ्रास्ट्रक्चर को भी मजूबत बनाने का काम कर रही है। इस दौरान उन्होंने स्कूल भवनों के निर्माण सहित उन्हें बिजली से लैस करने के निर्देश दिए। उन्होंने स्कूलों को व्यवसायिक कनेक्शन के बजाय घरेलू कनेक्शन से जोड़ने का सुझाव दिया। इसके लिए सभी राज्यों से अपने यहां की बिजली कंपनियों से बातचीत करने को भी कहा है। जावड़ेकर ने कहा कि सरकारी स्कूलों का संचालन कोई फायदा कमाने के लिए नहीं हो रहा, ऐसे में स्कूलों के लिए व्यवसायिक कनेक्शन लेना ठीक नहीं है। इससे खर्च बढ़ेगा। राज्यों की ओर से शिक्षकों की कमी को लेकर उठाए गए मुद्दों पर उन्होंने अपने पुराने दावों को फिर दोहराया और कहा कि सरकारी स्कूलों में शिक्षकों को कोई कमी नहीं है। इनकी तैनाती में ही खामी है। उन्होंने पिछड़े जिलों के कॉलेजों में शिक्षकों की कमी को जल्द पूरा करने के भी निर्देश दिए।    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

mumbai rita

  टीवी और फिल्मों में कई शानदार किरदार निभा चुकीं एक्ट्रेस रिता भादुड़ी का 62 साल की उम्र में निधन हो गया है। रीता कई दिनों से बीमार थीं। किडनी की बीमारी के चलते रीता पिछले 10 दिनों से मुंबई के सुजय अस्पताल के आईसीयू में भर्ती थीं। उनका अंतिम संस्कार मंगलावर दोपहर अंधेरी ईस्ट के पारसीवाड़ा स्थित श्मशान में किया जाएगा। 62 साल की उम्र में दुनिया को अलविदा कह चुकीं रीता भादुड़ी पिछले काफी समय से कई सारी स्वास्थ्य समस्याओं से गुजर रही थी। बीते वर्ष ही इस बात का खुलासा हुआ था कि उनकी किडनी काफी कमजोर हो गई है। इसके कारण उन्हें हर दूसरे दिन डायलिसिस के लिए अस्पताल जाना पड़ रहा था। बावजूद इसके उन्होंने एक्टिंग करना नहीं छोड़ा था। अभी हाल ही में उन्हें स्टार प्लस के टीवी सीरियल 'निमकी मुखिया' में देखा गया था। इस सीरियल में उन्होंने इमरती देवी का किरदार निभाया था। अपनी बीमारी के बावजूद लगातार सीरियल 'निमकी मुखिया' की शूटिंग कर रही रीता ने एक बार कहा था कि, ‘बुढ़ापे में होने वाली बीमारियों के डर से क्या काम करना छोड़ दें। मुझे काम करना और व्यस्त रहना पसंद है। मुझे हर समय अपनी खराब हालत के बारे में सोचना पसंद नहीं, इसलिए मैं खुद को व्यस्त रखती हूं।' रीटा भादुड़ी पिछले पांच दशकों से टेलीविजन की दुनिया का जाना-पहचाना नाम है। उन्होंने ना सिर्फ सीरियलों में काम किया है बल्कि कई फिल्मों में भी उन्होंने अपनी एक्टिंग का जलवा दिखाया है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

गुजरात के कई जिलों में बाढ़ जैसे हालात

गुजरात के एक दर्जन से अधिक जिलों में भारी वर्षा के चलते नदियां उफान पर हैं और बांध ओवरफ्लो हो रहे हैं। बाढ़ जैसे हालात पैदा होने से जनजीवन पूरी तरह अस्तव्यस्त हो गया है। राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) की 15 टीमें राहत कार्य में जुटी हैं। मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने सोमवार को खुद स्टेट इमरजेंसी ऑपरेशन सेंटर पहुंचकर हालात का जायजा लिया। प्रदेश में मानसून अब पूरी तरह सक्रिय है। दक्षिण गुजरात, सौराष्ट्र व मध्य गुजरात में बीते 24 घंटे में मूसलाधार वर्षा हुई है। दक्षिण गुजरात व सौराष्ट्र में तो अब तक मानसून की 50 फीसद से अधिक वर्षा रिकॉर्ड की जा चुकी है। राज्य की तापी, अंबिका, अश्विन, मधुवंती, कीम, तलाजी, औरंगा आदि नदियां पूरे उफान पर हैं। एक दर्जन से अधिक जिलों के सैकड़ों गांवों से संपर्क टूट गया है। वहां पानी, बिजली आदि की सुविधाएं अस्तव्यस्त हो गई हैं। चार राष्ट्रीय राजमार्गों सहित करीब 130 स्टेट हाइवे को बंद करना पड़ा है। ट्रेन भी पानी में फंसी भावनगर के गीर गढडा में सर्वाधिक 12 इंच वर्षा हुई। इस वजह से ट्रेन भी पानी में फंस गई। एनडीआरएफ व स्थानीय लोगों ने करीब 252 यात्रियों को सुरक्षित निकाला। गीर सोमनाथ के ऊना में 10 इंच वर्षा रिकॉर्ड की गई। भावनगर की जेसर तहसील में नौ इंच और सूरत की कामरेज व नवसारी के गणदेवी में सात-सात इंच बारिश दर्ज की गई। 34 तहसीलों में एक इंच से अधिक बरसात रिकॉर्ड की गई है। मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने सोमवार को स्टेट इमरजेंसी ऑपरेशन सेंटर पहुंचकर हालात का जायजा लिया और हॉटलाइन पर जिला कलेक्टरों से बातकर राहत कायोर् की समीक्षा की। रूपाणी ने कहा कि हर जिले में कंट्रोल रूम 24 घंटे कार्यरत हैं। एनडीआरएफ बचाव कार्य में जुटी है, जरूरत पड़ी तो एयरफोर्स की भी मदद ली जाएगी। 20 जुलाई को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गांधीनगर में दीक्षांत समारोह में आने के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि इस पर कोई चर्चा नहीं हुई है, लेकिन माना जा रहा है कि आगामी 72 घंटों में भारी बारिश के अलर्ट को देखते हुए उनका दौरा टल सकता है। अब तक 26 लोगों की मौत राजस्व मंत्री कौशिक पटेल ने बताया कि वर्षा जनित हादसों में अब तक 26 लोगों की मौत हुई है। प्रत्येक मृतक के परिजनों को चार-चार लाख रुपये की मदद दी जाएगी। राज्य में अब तक 126 मवेशी भी काल के गाल में समा चुके हैं। मुख्य सचिव डॉ एनके सिंह ने बताया कि अब तक दो हजार से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थलों पर पहुंचाया जा चुका है। केरल में एक बार फिर मानसून पूरे वेग से बरस रहा है। लिहाजा आठ जिलों में स्कूल-कॉलेज बंद कर दिए गए हैं। रेल व सड़क यातायात पर भी असर पड़ा है। राज्य के कई निचले इलाके पानी में डूब गए हैं। नौ जुलाई के बाद से अब तक वर्षाजनित हादसों में 11 लोगों की मौत हो चुकी है। रेलवे ट्रैक पर जलजमाव से सिग्नल सिस्टम ठप हो गया। इस कारण एर्नाकुलम-तिरुअनंतपुरम रूट की कई ट्रेनों को रद कर दिया गया। राज्य में मंगलवार से शुरू होने वाली यूनिवर्सिटी की परीक्षाएं 21 जुलाई तक स्थगित कर दी गईं हैं। महाराष्ट्र के कोल्हापुर जिले में भी भारी बारिश हुई है। इससे जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया। पंचगंगा नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। जिले के अधिकांश बांध पहले ही लबालब हो चुके हैं। एक मकान की दीवार गिरने से 32 साल की एक महिला की मौत हो गई।    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

pl puniya

  कांग्रेस ने छत्तीसगढ़ के बस्तर क्षेत्र में वर्ष 2013 में हुए नक्सली हमले के पीछे पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी का हाथ होने का सनसनीखेज आरोप लगाया है। प्रदेश के कांग्रेस प्रभारी पीएल पूनिया ने जोगी की कांग्रेस में वापसी के दरवाजे बंद होने का ऐलान करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं की हत्या के पीछे वही थे। पुनिया ने एक साक्षात्कार में कहा कि बस्तर क्षेत्र के सुकमा जिले की दरभा घाटी के नक्सल हमले में राज्य में कांग्रेस के वरिष्ठ नेतृत्व का सफाया कर दिया गया था। जोगी पर इस हमले के पीछे होने का हाथ है। यह आरोप सार्वजनिक हो चुके हैं। उल्लेखनीय है कि सुकमा जिले में कांग्रेस नेताओं के काफिले पर हुए नक्सली हमले में कम से कम 27 लोग मारे गए थे। इसमें कांग्रेस के वरिष्ठ नेता विद्याचरण शुक्ला समेत राज्य के पूर्व मंत्री महेंद्र कर्मा और छत्तीसगढ़ कांग्रेस के प्रमुख नंद कुमार पटेल भी शामिल थे। सालों पहले उत्तरप्रदेश में मायावती के सहयोगी रह चुके पुनिया ने यह भी दावा किया कि जोगी और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के बीच कोई गठबंधन नहीं हो सकता है। उन्होंने ऐसी अफवाहों के लिए जोगी और भाजपा को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि यह लोग अफवाहें उड़ाने के विशेषज्ञ हैं। पुनिया छत्तीसगढ़ में कांग्रेस और बसपा के गठजोड़ के समर्थक हैं। उन्होंने कहा कि मायावती की पार्टी से गठजोड़ करने पर चुनाव में कांग्रेस की स्थिति बेहतर होगी। इस विषय पर उचित स्तर पर चर्चा की जा रही है। पुनिया के आरोप पर अजीत जोगी का पक्ष लेने की कोशिश की गई, लेकिन उनसे संपर्क नहीं हो पाया। उनके पुत्र और विधायक अमित जोगी का कहना है कि एजेंसी से जारी खबर को देखने के बाद ही कोई बयान दिया जा सकेगा।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

narendr modi midnapur

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को किसान जन कल्याण रैली में हिस्सा लेने के लिए पश्चिम बंगाल के मिदनापुर पहुंचे। शहर के कॉलेज मैदान में आयोजित इस सभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जहां किसानों के लिए सरकार द्वारा हाल में उठाए कदमों का जिक्र किया वहीं ममता सरकार पर ईशारों में जमकर निशाना साधा। पीएम मोदी ने कहा कि मां-माटी-मानुष की बात करने वालों का पिछले 8 साल में असली चेहरा, उनका सिंडिकेट सामने आ चुका है। सिंडिकेट की मर्जी के बिना पश्चिम बंगाल में कुछ भी करना मुश्किल हो गया है। यहां हर चीज के लिए सिंडिकेट बना हुआ है। कुछ भी काम करना हो तो यह सिंडिकेट ही तय करता है। पीएम ने कहा कि राज्य में सिंडिकेट सरकार है। जब तक इस सिंडिकेट की मंजूरी नहीं होती तब तक कोई काम नहीं होता। बंगाल में नई कंपनी खोलनी हो, नए अस्पताल खोलने हों, नए स्कूल खोलने हों, नई सड़क बनानी हो, बिना सिंडिकेट को चढ़ावा दिए, उसकी स्वीकृति लिए, कुछ भी नहीं हो सकता। इससे पहले पीएम मोदी ने कहा कि पीएम ने कहा कि किसानों को MSP सही मिले इसके लिए किसान मांग करते रहे, आन्दोलन करते रहे लेकिन दिल्ली में बैठी सरकार ने किसानों की एक न सुनी। केंद्र में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनने के बाद हमारी सरकार ने किसानों को डेढ़ गुणा समर्थन मूल्य देने का निर्णय ले लिया। किसान हमारे अन्नदाता और गांव हमारे देश की आत्मा हैं। कोई भी समाज तब तक आगे नहीं बढ़ सकता। अगर देश का किसान उपेक्षित हों तो कोई भी देश आगे नहीं बढ़ सकता है। स्वतंत्रता आन्दोलन हो, सामाजिक सुधार के कार्यक्रम हो, सामान्य मानवीय का सशक्तिकरण हो या फिर शिक्षा के उच्च मापदंड मेदिनीपुर ने इतिहास में अपना एक विशेष स्थान बनाया है। देश आज परिवर्तन के बड़े दौर से गुजर रहा है, स्वतंत्रता आन्दोलन के समय जिस प्रकार एक संकल्प लेकर उसे सिद्ध किया गया था वैसे ही समग्र देश में आज 'संकल्प से सिद्धि' की यात्रा आगे बढ़ रही है। किसानों के लिए हमने इतना बड़ा फैसला किया है कि आज तृणमूल को भी इस सभा में हमारा स्वागत करने के लिए झंडे लगाने पड़े और उनको अपनी तस्वीर लगानी पड़ी, ये भाजपा की नहीं हमारे किसानों की विजय है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

narendr modi mirzapur

पीएम नरेंद्र मोदी ने आज मिर्जापुर में उस बाण सागर परियोजना का लोकार्पण किया, जिसकी परिकल्पना 1956 में की गई थी। इसको मंजूरी मिली 1977 में तथा शिलान्यास 1978 में किया गया। इसके बाद चार दशक तक इसकी ओर किसी का ध्यान नहीं गया। इस दौरान उन्होंने पिछली सरकारों पर निशाना साधा। पीएम मोदी ने कहा कि पिछली सरकारों ने किसानों की चिंता नहीं की। उन्होंने कहा कि 300 करोड़ की परियोजना को पूरा करने में 3200 करोड़ रुपए में पूरा करना पड़ा। उन्होंने कहा कुछ लोग किसानों के नाम पर घड़ियाली आंसू बहाते हैं। अधूरी सिंचाई परियोजानाओं को पूरा क्यों नहीं किया गया। मोदी ने कहा कि देशभर में दशकों से अटकी परियोजनाओं को पूरा किया जा रहा है। सपा और बसपा की सरकार में विकास का एजेंडा था ही नहीं कभी। कांग्रेस की पूर्व सरकार ने कभी यूपी में स्वास्थ्य सुविधा का ख्याल नहीं किया, मोदी के नेतृत्व में 8 नए मेडिकल कालेज खुलने जा रहा है, एम्स और कैंसर संस्थान मिल रहा है। यूपी में भ्रष्टाचार पर अंकुश लगा और विकास तेज हुआ है। बताते चलें कि केंद्रीय जल विद्युत शक्ति आयोग से 1977 में इस परियोजना को स्वीकृति मिलने के बाद 14 मई 1978 को ही इसका शिलान्यास तत्कालीन प्रधानमंत्री मोरारजी देसाई ने किया। इसके बाद शासन-प्रशासन के दांव-पेंच के चलते अभी तक इसे अमलीजामा नहीं पहनाया जा सका था। मगर,अब इस परियोजना को मौजूदा केंद्र व प्रदेश की सरकार ने परवान चढ़ाया। परियोजना से उत्तर प्रदेश के साथ ही बिहार व मध्य प्रदेश के भी लाखों किसानों को लाभ मिलेगा। करीब 3148.91 करोड़ रुपए की लागत से तैयार बाणसागर परियोजना के रामबाण से प्रधानमंत्री विकास का पूरे देश को नया संदेश दिया। इसके साथ ही विंध्य की धरती से आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर हुंकार भरेंगे। मोदी ने कहा कि अभी हाल ही में एक खबर आई है। अगर यह निगेटिव होती, तो कई दिनों तक इस पर हो हल्ला होता। मगर, खबर पॉजिटिव थी, तो यह आई-गई हो गई। दो सालों में पांच करोड़ लोग भीषण गरीबी से बाहर निकले हैं। इसके साथ ही आयुष्मान योजना का जिक्र भी पीएम ने किया, जिसके तहत पांच लाख रुपए के चिकित्सकीय बिल का भुगतान सरकार करेगी। स्वच्छ भारत पर मोदी ने कहा कि गांवों में शौचालय बनने से वहां के परिवारों की बीमारियों में कमी आई है। बाणसागर परियोजना का प्रधानमंत्री के हाथों लोकार्पण होने के मद्देनजर अदवा बैराज को दुल्हन की तरह सजाया गया है। यह परियोजना हलिया विकास खंड में अदवा नदी के कैमूर पहाड़ की तलहटी में 3148.91 करोड़ की लागत से वर्ष 1977-78 में प्रारंभ की गई थी। विंध्य पर्वत एवं कैमूर श्रृखंलाओं की बाधाओं को पार करते हुए 25.600 किलोमीटर अदवा मेजा लिंक नहर का निर्माण किया गया। इसमें 150132 हेक्टेयर सिंचाई का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। अदवा, मेजा, जरगो बांध को पानी से भरने की योजना बनाई गई है। सिंचाई सुविधा को देखते हुए बैराज में आठ गेट अदवा नदी में पानी छोड़ने के लिए बनाए गए हैं वहीं दूसरी ओर तीन गेट बाणसागर नहर में पानी गिराने के लिए बने हैं। बाणसागर से अदवा बैराज मध्य प्रदेश के शहडोल जिले देवलोन बाणसागर बांध से अदवा बैराज के लिए पानी छोड़ा गया है। इससे मीरजापुर में 75309 हेक्टेयर तथा इलाहाबाद में 74823 हेक्टेयर यानी कुल 150132 हेक्टेयर सिंचाई करने की योजना है। नहरों की कुल लंबाई 171.80 किमी और क्षमता 46.46 क्युसेक पानी की होगी। इससे 170000 किसानों का परिवार लाभान्वित होगा। बाणसागर परियोजना से मध्यप्रदेश में 1.54 लाख हेक्टेयर तथा उत्तर प्रदेश में 1.50 लाख हेक्टेयर तथा बिहार राज्य में 94 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई हो सकेगी। केंद्र तथा प्रदेश सरकार ने विंध्य क्षेत्र की इस महत्वांकाक्षी अंतरराज्यीय परियोजना को पूरा करने को सर्वोच्च प्राथमिकता दी। अब अदवा बैराज डाक-बंगले सहित भवन तथा पुल सहित पूरी परियोजना भगवा में रंग गए हैं। ऐसे में अब बाणसागर परियोजना का लोकार्पण कर प्रधानमंत्री एक तीर से कई निशाने साधेंगे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

उत्तर प्रदेश में पॉलीथिन पर प्रतिबंध

उत्तर प्रदेश में रविवार 15 जुलाई से 50 माइक्रोन तक की पतली पॉलीथिन प्रतिबंधित कर दी गई है। पहले चरण में नगरीय निकाय क्षेत्रों यानी शहरों में इसमें प्रतिबंध लगाया गया है। पॉलीथिन के निर्माण, बिक्री, भंडारण व आयात-निर्यात पर पूरी तरह प्रतिबंध रहेगा। प्रतिबंधित पॉलीथिन बनाने व बेचने पर जुर्माना व सजा का प्रावधान है। सरकार ने इसमें एक लाख रुपये तक का जुर्माना और छह माह तक की जेल भेजने के नियम बनाए हैं। प्रतिबंध को सख्ती से लागू करने के लिए सरकार छापामारी अभियान चलाएगी। इसके लिए जिला प्रशासन, नगरीय निकाय, पुलिस व प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की संयुक्त टीमें बनेंगी। छापा मारने वाली टीम मौके पर ही जुर्माना भी वसूल सकेंगी। नगर विकास विभाग ने अधिनियम में जरूरी संशोधन के लिए अध्यादेश तैयार कर लिया है। इसे कैबिनेट बाई सर्कुलेशन से मंजूरी भी मिल गई है। अब राज्यपाल के हस्ताक्षर रह गए हैं। इस कारण इसके आदेश शनिवार को जारी नहीं हो सका। राज्यपाल द्वारा अध्यादेश को मंजूरी देते ही रविवार को आदेश जारी हो जाने की पूरी उम्मीद है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पॉलीथिन, प्लास्टिक व थर्मोकोल में चरणबद्ध तरीके से प्रतिबंध की घोषणा की है। उनकी घोषणा के अनुसार ही 15 जुलाई रविवार से 50 माइक्रोन तक की पॉलीथिन प्रतिबंधित की जा रही है। दूसरा चरण 15 अगस्त से शुरू होगा, इसमें प्लास्टिक व थर्मोकोल के कप-प्लेट व ग्लास प्रतिबंधित किए जाएंगे। इसके बाद दो अक्टूबर से सभी प्रकार के डिस्पोजेबल पॉलीबैग पर भी प्रतिबंध रहेगा। नगर विकास विभाग ने उत्तर प्रदेश प्लास्टिक और अन्य जीव अनाशित कूड़ा-कचरा (उपयोग एवं निस्तारण का विनियमन)-2000 में संशोधन किया है। संशोधन के लिए विभाग ने अध्यादेश तैयार कर लिया है। इसकी धारा सात में यह जोड़ा गया है कि प्रदेश सरकार अधिसूचना के जरिए नॉन बॉयोडिग्रेडेबिल प्लास्टिक या इस तरह के मैटीरियल को प्रतिबंधित कर सकती है। इस संशोधन के बाद अब सरकार कभी भी अधिसूचना जारी कर पॉलीथिन, प्लास्टिक या फिर इससे जुड़े अन्य उत्पादों को प्रतिबंधित कर सकती है। इसके लिए उसे बार-बार अधिनियम में संशोधन नहीं करना पड़ेगा। केवल अधिसूचना के जरिए ही प्रतिबंध लगाया या फिर हटाया जा सकेगा। प्रमुख सचिव नगर विकास विभाग मनोज कुमार सिंह ने बताया कि पॉलीथिन व प्लास्टिक पर प्रतिबंध की सरकार ने पूरी तैयारी कर ली है। कानूनी कार्रवाई के लिए अधिनियम में भी जरूरी संशोधन की प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। इसमें कुछ औपचारिकता शेष रह गई है।   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

amit shah

हैदराबाद में भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने  कहा कि अयोध्या में भव्य राम मंदिर के निर्माण का काम लोकसभा चुनावों से पहले शुरू हो जाएगा। शाह की पार्टी की तेलंगाना राज्य समिति के साथ हुई बैठक के संबंध में राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य पेराला शेखरजी ने शाह का हवाला देते हुए कहा कि इस संबंध में उठाए गए कदमों को देखें तो अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का काम लोकसभा चुनावों से पहले शुरू हो जाएगा। एक दिन की यात्रा पर हैदराबाद पहुंचे अमित शाह ने समय से पहले लोकसभा चुनाव कराए जाने की संभावनाओं से भी इन्कार किया है। शाह ने पार्टी नेताओं से राज्य में सरकार बनाने के लिए रणनीति तैयार करने को भी कहा। बता दें कि शुक्रवार को ही सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या केस पर सुनवाई के दौरान शिया वक्फ बोर्ड ने मुस्लिमों को मिली जमीन मंदिर के लिए दान देने की बात कही है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

सीतारमण ने संयुक्त राष्ट्र रिपोर्ट को ख़ारिज किया

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने जम्मू-कश्मीर पर संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट को खारिज करते हुए कहा कि आतंकवाद प्रभावित राज्य में जमीनी हकीकत को दरकिनार किया गया है। सुरक्षा बलों के मानवाधिकार उल्लंघन के आरोप को ठुकराते हुए उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र ने राज्य में आतंकवाद के पीड़ितों के लिए भारतीय सेना की सहायता को एकदम अनदेखा कर दिया है। इस बीच, विदेश राज्य मंत्री वीके सिंह ने कहा कि जम्मू-कश्मीर पर संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयोग की रिपोर्ट का संयुक्त राष्ट्र से कोई लेना-देना नहीं है। यह एक व्यक्ति की जारी की हुई रिपोर्ट है। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को कहा कि भारतीय सेना जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों और प्रदर्शनकारियों से निपटने में सबसे अधिक संयम बरतती है। सेना ने वहां कई स्कूल स्थापित किए हैं। उच्च शिक्षा के लिए लड़के और लड़कियों का प्रशिक्षण किया है। साथ ही उन्हें भारत के अन्य राज्यों में यात्रा करने का अवसर प्रदान किया है। वहीं, विदेश राज्य मंत्री वीके सिंह ने संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयोग की रिपोर्ट को सिरे से खारिज करते हुए कहा कि इस रिपोर्ट का संयुक्त राष्ट्र से कोई लेना-देना ही नहीं है। यह एक व्यक्ति की जारी रिपोर्ट है और इसे उसी तरह से देखा जाना चाहिए। उल्लेखनीय है कि इस हफ्ते की शुरुआत में संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान की स्थाई प्रतिनिधि मलीहा लोधी ने पाकिस्तान के कब्जे वाले जम्मू-कश्मीर पर 14 जून की एक रिपोर्ट का हवाला दिया था। यह रिपोर्ट संयुक्त राष्ट्र उच्चायुक्त जैद राद अल हुसैन ने सुरक्षा परिषद में सशस्त्र संघर्ष और बच्चों के विषय पर चर्चा के दौरान पेश की थी। इस रिपोर्ट में अल हुसैन ने कश्मीर में मानवाधिकार उल्लंघन पर स्वतंत्र अंतरराष्ट्रीय जांच कराने की मांग की गई थी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

स्पेशल ओलंपिक भारत में तनिष्क आनंद ने जीता रजत पदक

  यूं तो बातें बहुत होती है मगर कुछ खास बच्चे एसा कर जाते है जो इन खास बच्चों को और खास बना देते हैं। एसा ही कुछ खास हुआ है भारत स्पेशल ओलम्पिक गांधी नगर में जहां तनिष्क आनंद जैसे ही 20 खिलाड़ीयों ने 9 गोल्ड, 9 सिल्वर और 5 कांस्य पदक जीतकर मध्य प्रदेश का नाम रोशन किया है। गुजरात के गांधीनगर में 5 से 9 जुलाई तक चली राष्ट्रीय प्रतियोगिता में मध्य प्रदेश से 20 विशेष खिलाड़ियों ने भाग लिया था। जिसमें एमपी की टीम ने 9 गोल्ड सहित 23 पदक जीते हैं। भोपाल के तनिष्क आनंद ने टेबल टैनिस में रजत पदक जीता है। यह खेल आगामी साल में होने वाली अंतरराष्ट्रीय स्पेशल ओलम्पिक प्रतियोगिता आबूधावी में जाने का टिकट मानी जाते हैं और इन्ही खिलाड़ियों में से ही देश की टीम तैयार होती है। गांधी नगर में भोपाल का परचम लहराने के बाद मंगलवार को भोपाल लौटी टीम को रेलवे स्टेशन पर भव्य स्वागत हुआ। इन खिलाड़ियों का स्वागत करने पहुंचे जनप्रतिनिधि, कोच, पूर्व खिलाड़ी और परिजन भाव विभोर थे। टीम मेनेजर एहताशाम उद्दीन, कोच प्रतिभा, इकराम, प्रभात, रामसेवक, संदीप, रुचिका एवं मीनाक्षी को टीम की उपलब्धि पर लोगों ने बधाई दी।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट ने राष्ट्रीय राजधानी में रियायती दर पर जमीन पाने वाले सभी निजी अस्पतालों को निश्चित संख्या में गरीब रोगियों की चिकित्सा मुफ्त में करने को कहा है। अस्पतालों को अत्यंत सस्ती दर पर दी गई जमीन के लीज डीड में गरीबों को चिकित्सा मुहैया कराना शामिल है। निजी अस्पतालों के लिए सरकार द्वारा आवंटित जमीन पर 10 फीसद इन पेशेंट विभाग (आइपीडी) और 25 फीसद आउट पेशेंट विभाग (ओपीडी) में मुफ्त में चिकित्सा मुहैया कराना अनिवार्य है। जस्टिस अरुण मिश्रा की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा कि अस्पतालों द्वारा विरोध करने पर लीज निरस्त किया जा सकता है। पीठ ने दिल्ली सरकार से आदेश के अनुपालन पर समय-समय पर रिपोर्ट पेश करने को कहा है। पीठ ने कहा कि वह इस बात पर नजर रखेगी कि निजी अस्पताल गरीबों का मुफ्त में इलाज कर रहे हैं या नहीं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

शोपियां में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़

सुरक्षाबलों को दक्षिण कश्मीर के शोपियां के कुमदलान में 5-6 आतंकियों के छिपे होने का शक है। सुरक्षाबलों ने आतंकियों को चारों तरफ से घेरा।  जम्मू-कश्मीर के शोपियां में मंगलवार की सुबह सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ जारी है। इस मुठभेड़ में तीन आतंकियों के मारे जाने की खबर है, वहीं सुरक्षाबलों के दो जवान घायल हुए हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सुरक्षाबलों को दो आतंकियों के शव मिले हैं। सुरक्षाबलों को दक्षिण कश्मीर के शोपियां के कुमदलान में 5-6 आतंकियों के छिपे होने का शक है। सुरक्षाबलों ने आतंकियों को चारों तरफ से घेर लिया है। मिली जानकारी के अनुसार, मंगलवार की सुबह सेना की 34 आरआर के जवानों के साथ मिलकर सीआरपीएफ और राज्य पुलिस के विशेष अभियान दल एसओजी के जवानों ने कुंडलन में आतंकियों के छिपे होने की सूचना पर एक तलाशी अभियान चलाया। गांव में तलाशी लेते हुए जवान जैसे ही आगे बढ़े, एक मकान में छिपे आतंकियों ने उन पर फायरिंग कर दी। आतंकियों ने जवानों पर पहले राइफल ग्रेनेड दागा और उसके बाद उन्होंने अपने स्वचालित हथियारों से फायरिंग की। जवानों ने भी अपनी पोजीशन ली और जवाबी फायर किया। इसके बाद वहां मुठभेड़ शुरू हो गई जिसमें एक जेसीओ समेत दो सैन्यकर्मी घायल हो गए। हालांकि मकान में छिपे आतंकियों की संख्या की तत्काल पुष्टि नहीं हो पाई है। लेकिन संबधित अधिकारियों के मुताबिक, आतंकियों की संख्या पांच हो सकती है। संयुक्त सुरक्षा बलों की घेराबंदी और फायरिंग के बाद आतंकियों की ओर से भी फायरिंग की गई। जेसीओ समेत दो सैन्यकर्मी आतंकियों के साथ मुठभेड़ में गंभीर रुप से घायल हो गए। फिलहाल, दोनों का सेना के 92बेस अस्पताल में उपचार किया जा रहा है। इस बीच, मुठभेड़स्थल पर जमा हुई आतंकियों की समर्थक भीड़ व पुलिस के बीच हिंसक झड़पें भी शुरू हो गई हैं। मुठभेड़ शुरू होते ही बड़ी संख्या में शरारती तत्व भड़काऊ नारेबाजी करते हुए मुठभेड़स्थल पर जमा हो गए। उन्होंने आतंकरोधी अभियान में रुकावट डालते हुए सुरक्षाबलों पर पथराव करते हुए घेराबंदी तोड़ने का प्रयास भी किया। इस पर वहां मौजूद पुलिस के जवानों ने उन्हें खदेड़ने के लिए आंसू गैस और लाठियों का सहारा लिया। इसके बाद वहां हिंसक झड़पें भी शुरू हो गई। संबधित अधिकारियों के मुताबिक, पथराव के बावजूद सुरक्षाबलों ने आतंकियों को मार गिराने का अपना अभियान जारी रखा हुआ है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

मुम्बई स्टॉक एक्सचेंज

मुख्यमंत्री श्री चौहान मुम्बई स्टॉक एक्सचेंज में दर्ज करायेंगे इंदौर नगर निगम के बॉण्ड मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान 5 जुलाई को सुबह 9 बजे मुम्बई में स्टॉक एक्सचेंज में घंटा बजाकर इंदौर नगर निगम के बॉण्ड दर्ज करवाया । इंदौर नगर निगम ने शहरी विकास की गतिविधियों में नागरिकों की आर्थिक भागीदारी सुनिश्चित करने के लिये अभी हाल ही में 28 जून को 170 करोड़ रुपये के बॉण्ड जारी किये हैं। इंदौर नगर निगम इस तरह के बॉण्ड जारी करने वाला राज्य का प्रथम और देश का तीसरा नगर निगम बन गया है। भारत सरकार की अमृत योजना के माध्यम से इंदौर शहर में नगर निगम ने जल-वितरण, सीवरेज और शहरी परिवहन सुविधाओं को विकसित करने के लिये बॉण्ड जारी किये हैं। इसमें भारत सरकार का 324.05 करोड़, राज्य सरकार का 486.18 करोड़ और नगर निगम का 162.08 करोड़ रुपये अंशदान निर्धारित किया गया है। निवेश आमंत्रित करने वरिष्ठ उद्योगपतियों से मिले मुख्यमंत्री मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आज अपने मुम्बई प्रवास के दौरान सीआईआई द्वारा आयोजित कार्यक्रम में भाग लिया। श्री चौहान ने इस दौरान प्रदेश में निवेश के संदर्भ में विभिन्न देशों के वाणिज्यिक दूतों और उद्योग जगत के वरिष्ठ उद्योगपतियों से मुलाकात की और विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की। मुख्यमंत्री मुख्य रूप से आस्ट्रेलिया, कनाडा, इण्डोनेशिया, जापान, सिंगापुर, कोरिया और रशिया के वाणिज्यिक दूतों से मिले और उन्हें प्रदेश की विकास यात्रा के बारे में जानकारी दी। श्री चौहान ने बताया कि आज की तारीख में मध्यप्रदेश सभी क्षेत्रों में निवेश के लिये एक आदर्श राज्य बन चुका है। उन्होंने निवेशकों को आगामी 23-24 फरवरी, 2019 को मध्यप्रदेश की औद्योगिक नगरी इंदौर में आयोजित की जा रही ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में मित्र देश के रूप में आने का न्यौता भी दिया। मुख्यमंत्री को सिंगापुर के वाणिज्यिक दूत श्री अजीत सिंह ने मध्यप्रदेश में निवेश के लिये किये जा रहे प्रयासों के लिये बधाई देते हुए कहा कि राज्य शासन द्वारा दी जा रही सुविधाएँ हमें आकर्षित करती हैं। उन्होंने आश्वस्त किया कि हम सिंगापुर से विशिष्ट क्षेत्र के विकास के लिये निवेशक लायेंगे। आस्ट्रेलिया के वाणिज्यिक दूत श्री टोनी उबर ने भी मुख्यमंत्री के प्रयासों को सराहा। ब्रिटिश डिप्टी हाई कमीशन के श्री बेन ग्रीन ने भी मध्यप्रदेश में शिक्षा और बैंकिंग के क्षेत्र में निवेश के मामले में रुचि जताई। कनाडा के वाणिज्यिक दूत ने प्रदेश में जल-संचयन के क्षेत्र में रुचि दिखाई और मुख्यमंत्री का निमंत्रण स्वीकार करते हुए कहा कि वे शीघ्र ही मध्यप्रदेश आयेंगे। इण्डोनेशिया के वाणिज्यिक दूत ने उनके देश में आगामी 24 से 28 अक्टूबर तक आयोजित ट्रेड एक्सपो में भारतीय प्रतिनिधियों को आमंत्रित किया, जिसे मुख्यमंत्री ने सहर्ष स्वीकार किया। मुख्यमंत्री ने समस्त वाणिज्यिक दूतों को सीआईआई के कार्यक्रम में शामिल होने पर धन्यवाद दिया। इस अवसर पर प्रमुख सचिव उद्योग श्री मोहम्मद सुलेमान और मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव श्री एस.के. मिश्रा भी मौजूद थे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

सुप्रीम कोर्ट

  सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद भी दिल्ली का झगड़ा सुलझता नजर नहीं आ रहा है। सुप्रीम कोर्ट का आदेश आते ही केजरीवाल सरकार ने अफसरों के तबादलों की लंबी लिस्ट जारी कर दी थी। अब दिल्ली के सर्विसेज विभाग ने इस आदेश को मानने से इन्कार कर दिया है। इसके बाद गुरुवार सुबह केजरीवाल सरकार मंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा, यदि अफसर सुप्रीम कोर्ट का आदेश नहीं मानेंगे तो अफरातफरी मचेगी। सिसोदिया ने अपील की कि केंद्र सरकार और उपराज्यपाल, सुप्रीम कोर्ट की वह बात मानें, जिसमें आपसी सामंजस्य के साथ काम करने की सलाह गई है। इससे पहले सुप्रीम कोर्ट के बुधवार को अधिकारों के विवाद में फैसला आते ही केजरीवाल सरकार ने कैबिनेट बैठक के बाद ट्रांसफर और पोस्टिंग का अधिकार मंत्रियों को दिया था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, दिल्ली के सर्विसेज विभाग ने केजरीवाल सरकार के आदेश को मानने से इन्कार कर दिया है। दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने बुधवार की शाम को ही ट्रांसफर को लेकर आदेश दिए थे। सूत्रों के मुताबिक, सर्विसेज विभाग का कहना है कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश में कहीं भी अगस्त 2016 के उस नोटिफिकेशन को रद्द नहीं किया गया है, जिसमें ट्रांसफर पोस्टिंग का अधिकार उपराज्यपाल, मुख्य सचिव या सचिवों को दिया था। बुधवार को सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था कि अधिकारियों के ट्रांसफर अब मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री की इजाजत से होंगे। इस बीच, दिल्ली सरकार ने उन अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने की तैयारी शुरू कर दी है, जो उसके निर्देशों में दिलचस्पी नहीं ले रहे थे। दिल्ली सरकार में काम कर रहे कई बड़े अधिकारियों के तबादले के आदेश गुरुवार तक जारी होने की संभावना है। उन्हें ऐसे विभागों में भेजा जा सकता है, जहां सीधे तौर पर सक्रिय भूमिका नहीं रहती है। इसमें उन अधिकारियों के नाम सबसे ऊपर हैं जो मुख्य सचिव के साथ मारपीट की घटना के बाद से अधिकारियों की ओर से विरोध में सक्रिय भूमिका निभाते रहे हैं। सूत्रों की मानें तो सुप्रीम कोर्ट के फैसले को अपने हक में मानते हुए दिल्ली सरकार ने आईएएस और दानिक्स के 30 से 35 अधिकारियों की लिस्ट तैयार कर ली है। उनसे महत्वपूर्ण विभाग छीने जा सकते हैं। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद दिल्ली सरकार का दावा है कि अधिकारियों के तबादले का अधिकार उसके पास आ गया है, जबकि अभी तक ये तबादले उपराज्यपाल के निर्देश पर होते आ रहे हैं। वहीं, दिल्ली विधानसभा के पूर्व सचिव एसके शर्मा का कहना है कि अभी भी सेवाएं विभाग गृह मंत्रलय के पास है। जिस पर उपराज्यपाल ही तबादला व नियुक्तियों पर फैसला लेंगे। दिल्ली सरकार यदि इसमें कुछ कह रही है तो गलत है। सुप्रीम कोर्ट ने यह भी याद दिला दिया कि जनादेश का अर्थ यह नहीं कि वह अधिकार से बाहर जाकर या फिर संविधान से परे भी कुछ किया जा सकता है। काल्पनिक आदर्श के लिए कोई स्थान नहीं है। सुप्रीम कोर्ट ने याद दिलाया कि जनप्रतिनिधि पद ग्रहण करते वक्त संविधान की शपथ लेते हैं। ऐसे में उनसे यह अपेक्षा होती है कि वह संविधान की मर्यादा और उसकी व्याख्या का ध्यान रखें। वोटरों की अपेक्षाओं को नीतियों में बदलने, उसे कानून का स्वरूप देने का कर्तव्य है। लेकिन संविधान के बाहर जाकर नहीं। संविधान में किसी भी तरह के वैचारिक सिद्धांत या कल्पना के लिए स्थान नहीं है। वही किया जा सकता है जो संविधान के अनुसार व्यावहारिक हो। ध्यान रहे कि इसी क्रम में कोर्ट ने दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा से इन्कार कर दिया। पिछले दिनों में जिस तरह दिल्ली सरकार अनशन पर दिखी शायद उस पर भी कोर्ट ने असहमति जताई।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

सीमा पर भारत-चीन के बीच शांति के लिए बनी सहमति

    सिलीगुड़ी में  चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी का प्रतिनिधिमंडल के साथ यहां सुकना स्थित आर्मी त्रिशक्ति कोर में बुधवार को हुई बैठक में भारत-चीन सीमा पर शांति व भाईचारा कायम रखने पर सहमति बनी। इसके पूर्व सिलीगुड़ी (पश्चिम बंगाल) के सुकना स्थित त्रिशक्ति कोर में चीनी प्रतिनिधिमंडल का पारंपरिक ढंग से भव्य स्वागत किया गया। इसके बाद लेफ्टिनेंट जनरल प्रदीप एम बाली के नेतृत्व में उच्च स्तरीय बैठक हुई। बैठक में दोनों पक्षों ने उम्मीद जताई कि यह वार्ता सीमा पर शांति बनाए रखने में महत्वपूर्ण योगदान देगी। यह वार्ता "विश्वास निर्माण" की पहल का हिस्सा है, जो कि विभिन्ना स्तरों पर सीनियर कमांडरों के बीच हो रही है। पिछली वार्ता पूर्वी कमान मुख्यालय कोलकाता में फरवरी, 2017 में हुई थी। चीनी सेना का प्रतिनिधिमंडल गुरुवार को कोलकाता के लिए रवाना होगा। चीनी सेना के प्रतिनिधिमंडल में लेफ्टिनेंट जनरल ल्यू ज्याओ भी शामिल हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

लोकतंत्र में चुनी हुई सरकार का महत्त्व :सुप्रीम कोर्ट

  दिल्ली में राज्य सरकार और केंद्र के बीच जारी अधिकारों की जंग पर सुप्रीम कोर्ट की पांच न्यायाधीशों की संविधान पीठ ने बुधवार को फैसला सुनाया। अपने फैसले में पांच जजों की बैंच ने कहा कि लोकतंत्र में जनता की चुनी सरकार का महत्व है। इसलिए मंत्रिमंडल के पास फैसले लेने का अधिकार है। तीन जजों ने एकमत से कहा कि एलजी दिल्ली के प्रशासक हैं लेकिन वो कैबिनेट के साथ समन्वय के साथ काम करें। सुप्रीम कोर्ट के फैसले को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने जनता की जीत करार दिया है। सिसोदिया ने कहा कि यह एक लैंडमार्क फैसला है और अब सरकार को अपनी फाइले मंजूरी के लिए एलजी के पास नहीं भेजनी होंगी। कोर्ट ने कही यह अहम बातें राज्य में चुनी हुई सरकार है और एलजी उसके फैसले में बाधा नहीं डाल सकते। चुनी हुई सरकार की जनता के प्रति जवाबदेही है। कोर्ट ने यह भी कहा कि राज्य में अराजकता के लिए कोई जगह नहीं है। सर्वोच्च न्यायालय ने कहा कि शक्तियों का समन्वय होना चाहिए। शक्ति एक जगह केंद्रित नहीं हो सकती। कोई भी सरकार जनता को उपलब्ध होनी चाहिए। हमारी संसदीय प्रणाली है और और केंद्र संसद के प्रति जवाबदेह है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि केंद्र और राज्य मिलकर काम करें। संघीय ढांचे में राज्यों को स्वतंत्रता है। कोर्ट ने कहा कि जनमत महत्वपूर्ण है और इसे तकनिकी मामलों में नहीं उलझाया जा सकता। एलजी दिल्ली के प्रशासक हैं क्योंकि और राज्यों के मुकाबले दिल्ली की स्थिति भिन्न है। अगर किसी मामले पर राज्य कैबिनेट से एलजी की राय मेल नहीं खाती है तो एलजी उसे खारिज करने की बजाय राष्ट्रपति को भेजे। कोर्ट ने कहा कि कैबिनेट को भी लिए गए फैसले के लिए एलजी की मंजूरी जरूरी नहीं है लेकिन उन्हे हर फैसला बाताया जाए। राज्य सरकार कोई भी फैसला अकेले लेकर उसे लागू कर दे यह ठीक नहीं है। संसद का बनाया कानून सर्वोच्च है, हालांकि, कुछ मामलों में राज्य सरकार कानून बना सकती है। दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार ने उप राज्यपाल को दिल्ली का प्रशासनिक मुखिया घोषित करने के हाईकोर्ट के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी। अपीलीय याचिका में दिल्ली की चुनी हुई सरकार और उप राज्यपाल के अधिकार स्पष्ट करने का आग्रह किया गया है। मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा, न्यायमूर्ति एके सीकरी, न्यायमूर्ति एमएम खानविल्कर, न्यायमूर्ति डीवाई चंद्रचूड़ और न्यायमूर्ति अशोक भूषण की पीठ ने केंद्र और दिल्ली सरकार की ओर से पेश दिग्गज वकीलों की चार सप्ताह तक दलीलें सुनने के बाद गत छह दिसंबर को अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था। दिल्ली सरकार की ओर से वरिष्ठ वकील गोपाल सुब्रमण्यम, पी. चिदंबरम, राजीव धवन, इंद्रा जयसिंह और शेखर नाफड़े ने बहस की थी जबकि केन्द्र सरकार का पक्ष एडीशनल सालिसिटर जनरल मनिंदर सिंह ने रखा था। दिल्ली सरकार की दलील थी कि संविधान के तहत दिल्ली में चुनी हुई सरकार है और चुनी हुई सरकार की मंत्रिमंडल को न सिर्फ कानून बनाने बल्कि कार्यकारी आदेश के जरिये उन्हें लागू करने का भी अधिकार है। दिल्ली सरकार का आरोप था कि उप राज्यपाल चुनी हुई सरकार को कोई काम नहीं करने देते और हर एक फाइल व सरकार के प्रत्येक निर्णय को रोक लेते हैं। हालांकि दूसरी ओर केंद्र सरकार की दलील थी कि भले ही दिल्ली में चुनी हुई सरकार हो लेकिन दिल्ली पूर्ण राज्य नहीं है। दिल्ली विशेष अधिकारों के साथ केंद्र शासित प्रदेश है। दिल्ली के बारे में फैसले लेने और कार्यकारी आदेश जारी करने का अधिकार केंद्र सरकार को है। दिल्ली सरकार किसी तरह के विशेष कार्यकारी अधिकार का दावा नहीं कर सकती।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

atmhatya

  दिल्ली के बुराड़ी इलाके में एक ही परिवार के 11 सदस्यों की मौत से इलाके के लोग सकते में हैं वहीं पुलिस भी फिलहाल किसी नतीजे पर नहीं पहुंच पाई है। हालांकि, सोमवार को बचे हुए 6 शवों का भी पोस्टमार्टम हो गया और सूत्रों के हवाले से खबर है कि इसमें सभी की मौत फांसी से होने की बात सामने आई है। क्राइम ब्रांच के जेसीपी आलोक कुमार के अनुसार सभी 11 शवों का पोस्टमार्टम हो चुका है। इनमें से 6 शवों की रिपोर्ट के अनुसार उनकी मौत फांसी से हुई है। रिपोर्ट के अनुसार परिवार की वरिष्ठ सदस्य और मां नारायण देवी का गला घोंटने का शक था लेकिन उनकी मौत भी फांसी से ही हुई है। वहीं दूसरी तरफ फोरेंसिक जांच भी पूरी होने की सूचना है। दावा है कि इस रिपोर्ट में भी घर के अंदर किसी बाहरी शख्स के फिंगरप्रिंट नहीं मिले हैं। इसके बाद किसी अन्य द्वारा परिवार की हत्या के कयास कमजोर पड़ते नजर आ रहे हैं. जांच के दौरान घर में मिले एक रजिस्टर ने अहम खुलासे किए हैं। पुलिस के अनुसार उन्हें घर से ऐसे कुछ नोट्स मिले हैं जो इस बात की तरफ इशारा करते हैं कि सभी 11 लोगों की मौत तंत्र-मंत्र के चक्कर में हुई है। इसके बाद पुलिस इस एंगल से भी जांच कर रही है। पड़ोसियों ने भी बताया है कि यह परिवार काफी धार्मिक विचारों वाला था और रात की कीर्तन करने के बाद ही सोता था। इतना ही नहीं, यह भी पता चला है कि दुकान पर हर दिन बोर्ड पर घर की बहू सुविचार लिखती थीं। पुलिस की मानें तो भाटिया परिवार के घर से मिले सबूत इस बात की ओर इशारा कर रहे हैं कि मृतकों का अध्यात्म की ओर ज्यादा झुकाव था। यही नहीं परिवार तांत्रिक विद्या पर भी विश्वास करता था, इसलिए माना जा रहा है कि मोक्ष की प्राप्ति के लिए अंधविश्वास में सभी ने स्वेच्छा से मौत को गले लगा लिया। पुलिस अधिकारी भी इस घटना को अध्यात्म से जोड़कर देख रहे हैं। हालांकि पुलिस की जांच अभी जारी है और पोस्टमार्टम रिपोर्ट भी आनी बाकी है। इसके बाद ही मौत की वजह स्पष्ट हो पाएगी। दरअसल मरने वाले सभी लोगों में नारायण देवी के छोटे बेटे ललित और पुत्रवधू टीना के हाथ खुले मिले हैं। पुलिस को आशंका है कि ललित और टीना को छोड़कर सभी ने पहले कोई नशीला पदार्थ खाया होगा। उनके अचेत होने के बाद ललित और टीना ने सभी के मुंह पर पहले कपड़े व टेप लपेटे और बाद में उन्हें फंदे से लटका दिया। अंत में पति और पत्नी ने भी फांसी लगा ली। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक घर से कुछ धार्मिक किताबें और हाथ से लिखी अध्यात्मिक बातें मिली हैं। जो इनके अंधविश्वास में जान देने की बात की ओर इशारा कर रहे हैं। भाटिया परिवार के पड़ोसी भी परिवार के धार्मिक रुझान से परिचित हैं। परिवार के सभी सदस्य नियमित पूजा-पाठ करते थे। वहीं, समय-समय पर भंडारे का आयोजन भी किया जाता था। नारायण देवी के छोटे बेटे ललित ने गत पांच वर्ष से मौन व्रत धारण कर रखा था। उनकी घर के भूतल पर ही लकड़ी व प्लाई की दुकान थी। जबकि बगल में बड़े भाई भुवनेश परचून की दुकान चलाते थे। इन दोनों दुकानों के बीच एक प्लाई का बोर्ड लगा था। उसपर अक्सर प्रियंका अन्यथा परिवार का कोई अन्य सदस्य रोजाना कोई-कोई न कोई आध्यामिक विचार अथवा श्लोक इत्यादि लिखता था। उनकी दुकान पर आने वाले लोग सहित इस गली से गुजरने वाले उसे बड़े ध्यान से पढ़ते थे। मालूम हो कि भाटिया परिवार में तीन बेटे व दो बेटियों में अब सबसे बड़े बेटे दिनेश और बेटी सुजाता भाटिया जीवित हैं। दिनेश परिवार के साथ राजस्थान के कोटा में रहते हैं। जबकि सुजाता अपने परिवार के साथ पानीपत रहती हैं। परिवार शनिवार की रात भाटिया परिवार रात 11.30 बजे तक जगा हुआ था। लोगों ने कुछ सदस्यों को तो गली में घूमता भी देखा था। भुवनेश की दुकान भी रात 11.30 तक खुली हुई थी। वे ग्राहकों को पहले की तरह सामान बेच रहे थे। लिहाजा लोगों को किसी अनहोनी होने की आशंका का आभास तक नहीं हुआ। पुलिस को आशंका है कि खाना खाने के बाद देर रात दो से तीन बजे के बीच सारी घटनाएं घटीं। एक ही परिवार के 11 सदस्यों की मौत के मामले की संजीदगी को देखते हुए, रविवार का दिन होने के बावजूद मेडिकल बोर्ड की निगरानी में रात में ही शवों का पोस्टमार्टम किया गया। पोस्टमार्टम के लिए दिल्ली सरकार के लोकनायक अस्पताल ने फारेंसिक विशेषज्ञ डॉक्टरों के दो मेडिकल बोर्ड गठित किए हैं। पोस्टमार्टम की वीडियोग्राफी भी करवाई गई है। रविवार को छह शवों को पोस्टमार्टम किया गया, शेष पांच का सोमवार को होगा। पुलिस सूत्रों के अनुसार प्राथमिक तौर पर डॉक्टरों ने मौत का कारण आत्महत्या बताया है। फांसी लगाने के कारण उन लोगों की मौत हुई। सभी शवों का पोस्टमार्टम पूरा होने के बाद डॉक्टर अपनी फाइनल रिपोर्ट पुलिस को सौपेंगे। एक घर में ग्रिल से लटके हुए नौ शवों को लेकर सभी के दिमाग में पहला सवाल यही है कि यह कैसे संभव हुआ होगा। आखिर कैसे संभव है कि एक ही परिवार के 11 लोगों ने फांसी लगाकर खुदकशी कर ली। दिल्ली पुलिस की जांच टीम व फॉरेंसिक टीम की पूरी जांच इसी गुत्थी को सुलझाने पर टिकी है। फॉरेंसिक टीम ने मौके पर शवों का हर एंगिल से न सिर्फ माप लिया, बल्कि फोटोग्राफी भी कराई। टीम ने जांच के दौरान बारीकी से देखा कि एक शव से दूसरे शव के बीच की दूरी कितनी थी? शवों के पैर जमीन से कितने ऊपर थे? हाथों को कैसे बांधा गया था? इतना ही नहीं, अगर घटना खुदकशी की है तो क्या एक साथ नौ लोग इस तरह से खुदकशी कर सकते हैं या नहीं? बरामदे में मिले 10 शवों में से दो के हाथ खुले मिले हैं, जबकि आठ के हाथ बंधे मिले। इस पहलू पर भी टीम जांच कर रही है। माप के साथ ही टीम ने अलग-अलग एंगिल से पूरे क्राइम सीन की फोटोग्राफी कराई, ताकि हर पहलू की जांच की जा सके।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

जम्मू-कश्मीर

जम्मू-कश्मीर में लगातार हो रही बारिश के कारण झेलम नदी खतरे के निशान से ऊपर बहने लगी है। लगातार हो रही बारिश के कारण राज्य में बाढ़ से हालात पैदा हो गए हैं। प्रशासन ने इसे देखते हुए सभी स्कूलों की छुट्टी घोषित कर दी है वहीं स्थिति को देखते हुए राज्यपाल ने आपात बैठक कर हालात का जायजा लिया है। वहीं तवी नदी में पानी बढ़ने से यहां 6 लोग फंस गए जिन्हें स्टेट डिजास्टर रिस्पॉन्स टीम ने बचाया। जानकारी के अनुसार राज्य बाढ़ नियंत्रण अधिकारियों ने कहा है कि झेलम का जल स्तर मुंशी बाग के करीब खतरे के निशान से ऊपर पहुंच गया है। इसे देखते हुए बाढ़ का अलर्ट जारी कर दिया है। बता दें कि राज्य में दो दिनों से लगातार हो रही मुसलाधार बारिश के चलते सभी नदियों का जलस्तर बढ़ गया है। वहीं इसके कारण शुक्रवार को अमरनाथ यात्रा भी रोकनी पड़ी थी। नदियों के बढ़ते जलस्तर को देखते हुए अधिकारी अलर्ट हो गए हैं और बाढ़ के हालात से निपटने की तैयारियां कर ली गई हैं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

  मगहर में पीएम मोदी ने सभा को संबोधित करते हुए विपक्षी दलों पर तीखा हमला बोला। कबीर दास जी की जयंती पर कार्यक्रमों में हिस्सा लेने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को संत कबीर दास की परिनिर्वाण स्‍थली मगहर पहुंचे। यहां उन्होंने आयोजित एक कार्यक्रम को भी संबोधित किया। अपने संबोधन में उन्होंने इशारों में विपक्षी दलों पर जमकर निशाना साधा। अपने संबोधन में पीएम ने कहा कि कबीर धूल से उठे और माथे का चंदन बन गए, उन्होंने समाज में जाति का भेद मिटाने के साथ उस समाज को जागृत किया। कबीर का पूरा जीवन सत्‍य की खोज में बीता है। वह फक्‍कड़ स्‍वभाव के थे, लेकिन दिल के साफ थे। बाहर से कठोर और भीतर से कोमल थे। वह अपने जन्‍म से नहीं कर्म से महान बन गए। संत कबीर के बाद संत रैदास आए। अंबेडकर आए। सभी ने अपने-अपने तरीके से समाज को रास्‍ता दिखाया। बाबा साहब अंबेडकर ने हमें जीने का अधिकार दिया। आज समाज में राजनीतिक लाभ लेने के लिए समाज में असंतोष पैदा कर रहे हैं। कुछ दलों को शांति और विकास नहीं, कलह और अशांति चाहिए, उनको लगता है जितना असंतोष और अशांति का वातावरण बनाएंगे उतना राजनीतिक लाभ होगा। पीएम ने कहा कि सच्चाई यह है कि ऐसे लोग जमीन से कट चुके हैं। उन्‍होंने कहा कि देश के राजनेताओं को गरीबों की चिंता नहीं रही। उन्हें बंगले का मोह है। करोड़ों के बंगले बनाने वालों ने गरीबों के लिए कुछ नहीं कहा। उन्‍होंने कभी गरीबों के लिए घर का निर्माण नहीं कराया। जब मोदी सरकार आई तो गरीबों के लिए छत का इंतजाम शुरू करा दिया। अभी दो दिन पहले ही देश में आपाल काल के 47 साल हुए। सत्‍ता की लालच ऐसा हो गया है कि आपात काल लाने वाले और उसका विरोध करने वाले कंधा से कंधा मिला लिए हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि तीन तलाक के मामले में भी इन राजनीतिक दलों को देखा है। आज मुस्लिम महिलाएं भी तीन तलाक के खिलाफ हैं। लेकिन राजनीतिक दलों के लोग मुस्लिम महिलाओं की भलाई की कोई चिंता नहीं है। कबीरदास ने कहा था कि शासक वही है जो जनता की पीड़ा को समझता हो और उसका निदान करता हो। पर अफसोस कुछ परिवार आज कबीरदास की बात को पूरी तरह नकारने में लगे हैं। वह भूल गए हैं कि आज हमारे साथ कबीर दास हैं। कबीर दास मनुष्‍य-मनुष्‍य के बीच भेद पैदा करने वालों के खिलाफ थे। प्रधानमंत्री ने कहा कि कबीर के दर्शन को लोग नहीं समझ रहे हैं। हमारी सरकार गरीब, दलित, पीडि़त, वंचित लोगों के लिए काम कर रही है। लगभग पांच करोड़ लोगों का खाता खुलवाया। करीब एक करोड़ लोगों को सुरक्षा बीमा का कवच देकर और यूपी के गांवों में सवा करोड़ शौचालय बनवाया। हमने सुलभ स्‍वास्‍थ्‍य सुविधाएं देने का वीणा उठाया है। कबीर श्रमयोगी थे। कबीर ने कहा था कि काल करे सो आज कर---उसी के तहत तेजी के साथ बन रही सड़कें एवं कार्य कबीर के विचारों का प्रतिबिंब है। भारत का पूर्वी भाग काे विकास से अलग कर दिया था। आज काम हो रहा है। इससे पहले प्रधानमंत्री ने कहा कि कबीर को समझने के लिए कोई भाषा नहीं गढ़ी। बोलचाल की भाषा का इस्‍तेमाल किया। बोलचाल की भाषा में ही उन्‍होंने जीवन दर्शन को बताया। उनके कई दोहों का उदाहरण देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि समय के साथ समाज में आने वाली आंतरिक बुराइयों को समाप्‍त करने के लिए ऋृषियों, मुनियों ने हमें मार्ग दिखाया। देश की चेतना को बचाने का कार्य संतों ने समय समय पर किया। उन्‍होंने बल्‍लभाचार्य, रामानुजाचार्य, रामानंद, तुलसी आदि कई संतों का नाम लेते हुए कहा कि उस दौर में भी तमाम विपत्तियों से गुजरते हुए समाज को नई दिशा दी। रामानंद ने तो समाज के सभी वर्गों को जोड़कर जाति-पाति और छुआछूत को समाप्‍त किया। पीएम आगे बोले कि, प्रधानमंत्री ने कहा कि कबीर व्‍यक्ति से अभिव्‍यक्ति बन गए। उन्‍होंने समाज की चेतना को जागृत करने का काम किया। उन्‍होंने कहा था कि यदि हृदय में राम है तो क्‍या काशी क्‍या मगहर। कबीर दास कहते थे कि हम काशी में प्रकट भये हैं, रामानंद चेताए। कबीर भारत की आत्‍मा और रससार कहे जा सकते हैं। उन्‍होंने जाति-पाति के भेद तोड़ा। पीएम ने कहा कि सैकड़ों वर्षों की गुलामी के कालखंड में अगर देश की आत्मा बची रही, तो वो ऐसे संतों की वजह से ही हुआ। इससे पहले अपने संबोधन की शुरुआत करते हुए पीएम ने उपस्थित जनसमुदाय को भोजपुरी में प्रणाम किया और कहा कि इस पावन भूमि को प्रणाम करत बानी। यह हमार सौभाग्‍य है कि आज हम यहां आइल बानी। उन्‍होंने कहा कि आज मुझे भी तीर्थ स्‍थल पर आने का मौका मिला। मैने कबीर की मजार पर चादर चढ़ाई, फूल चढ़ाया। कबीर दास की गुफा भी देखी। ऐसा कहा जाता है कि यहां पर गुरु गोरखनाथ, संतकबीर दास और गुरु नानक ने एक साथ बैठकर आध्‍यत्मिक चर्चा की थी। उन्‍होंने कहा कि तीरथ गए तो एक फल...कहकर कहा कि यह भूमि पूण्‍य फल देने वाला है। करीब 24 करोड़ रुपये की लागत से कबीर के कार्यक्रम को आगे बढ़ाया जाएगा। इससे पहले पीएम ने यहां कबीर की समाधि और मजार पर चादर चढ़ाकर शीश नवाया। इसके बाद उन्होंने यहा 24.9375 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाली संतकबीर शोध अकादमी का शिलान्यास किया। क्षेत्र के विकास के लिए कई अन्य परियोजनाओं की आधारशिला भी रखी जाएगी। मजार पर चादर चढ़ाने के बाद प्रधानमंत्री उस गुफा में भी गए जहां कहा जाता है कि कबीर दास जी ध्यान किया करते थे। एयरपोर्ट पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उनका स्वागत किया। कबीर निर्वाण स्थली पर आयोजित इस समारोह में प्रधानमंत्री एक जनसभा को भी संबोधित करेंगे। कबीर की निर्वाण स्थली मगहर में प्रधानमंत्री का आगमन 2019 के आसन्न लोकसभा चुनावों के लिहाज से खास माना जा रहा है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

सर्जिकल स्ट्राइक

गुलाम कश्मीर में स्थित आतंकी शिविरों और लांचिंग पैड पर भारतीय सेना की बहुचर्चित सर्जिकल स्ट्राइक का बुधवार को एक और सुबूत सामने आया है। यह सुबूत एक वीडियो फुटेज के रूप में है। इस फुटेज में भारतीय जवान पाकिस्तान क्षेत्र में दाखिल होकर आतंकी ठिकानों पर हमला करते नजर आ रहे हैं। सर्जिकल स्ट्राइक का पाकिस्तान और आतंकी संगठनों ने हमेशा खंडन किया है, लेकिन 21 माह बाद अब वीडियो फुटेज के सामने आने के बाद एक बार फिर स्पष्ट हो गया है कि भारतीय जवानों ने दुश्मन को उसके घर में घुसकर मजा चखाया था। भारतीय सेना की चार और नौवीं वाहिनी से संबंधित पैरा कमांडो दस्ते ने 28 और 29 सितंबर 2016 की दरमियानी रात को उत्तरी कश्मीर में एलओसी पार कर गुलाम कश्मीर के दो से तीन किलोमीटर अंदर के इलाके में जाकर आतंकियों के सात लांचिग पैड को तबाह किया था। इस कार्रवाई में कई आतंकी सरगना मारे गए थे। पाकिस्तानी सेना को भी इसमें नुकसान उठाना पड़ा था। भारतीय सेना ने यह कार्रवाई 18 सितंबर 2016 को उड़ी स्थित सैन्य ब्रिगेड मुख्यालय पर हुए आतंकियों के आत्मघाती हमले का बदला लेने के लिए की थी। इस हमले में 20 सैन्यकर्मी शहीद हुए थे। गुलाम कश्मीर में स्थित आतंकी ठिकानों पर हमले का खुलासा 29 सितंबर 2016   को तत्कालीन डीजीएमओ लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिह ने किया था। लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिह इस समय ऊधमपुर स्थित सेना की उत्तरी कमान प्रमुख हैं। संबंधित सूत्रों ने बताया कि इस अभियान में शामिल सेना की चार और 9वीं वाहिनी की घातक टीम और पैरा कमांडो दस्ते की हेलमेट पर लगे कैमरों ने लांचिग पैड पर हुई हर कार्रवाई को रिकार्ड किया था और यह वही फुटेज है। गुलाम कश्मीर में भारतीय सेना द्वारा कार्रवाई करने से 10 दिन पहले लगातार इस अभियान की योजना पर काम हुआ। घातक दस्तों ने पूरे इलाके का खाका तैयार किया। सेना व अन्य खुफिया एजेंसियों ने अपने तंत्र द्वारा कुछ खास लांचिग पैड को चिह्नित किया। सेटलाइट की मदद भी ली गई और अमावस की रात आते ही भारतीय जवान पाकिस्तानी क्षेत्र में घुस गए। इस अभियान की पीएम नरेंद्र मोदी, तत्कालीन रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोवाल और तत्कालीन डीजीएमओ रणबीर सिह ने लगातार निगरानी की थी। अलबत्ता, श्रीनगर स्थित रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता समेत किसी भी अन्य सैन्य अधिकारी ने सर्जिकल स्ट्राइक के वीडियो की पुष्टि नहीं की है। सर्जिकल स्ट्राइक के बारे में लेफ्टिनेंट जनरल (रिटायर) डीएस हुडा ने एक टीवी चैनल को बताया कि जब कोई इसपर सवाल उठाता है तो निराशा होती है। हम झूठ नहीं बोलते।' हुडा उत्तरी कमान के कमांडर रह चुके हैं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

देश के सबसे गंदे 10 शहरों में 8 बंगाल के

  स्वच्छ भारत मिशन (शहरी) के तहत हाल ही में संपन्न स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 में सबसे खराब प्रदर्शन करने वाले दस में से आठ शहर पश्चिम बंगाल के रहे। इसके बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इसे राजनीति से प्रेरित करार दिया है। इस सर्वेक्षण में एक लाख से ज्यादा आबादी वाले 485 शहरों की सूची जारी की गई है, जिसमें आखिरी स्थान पर राज्य का भद्रेश्वर शहर है। हुगली जिले का यह शहर कुल 4,000 अंकों में से महज 448.3 अंक ही हासिल कर पाया। जबकि पहले स्थान पर रहे मध्य प्रदेश के इंदौर शहर को 3,707.01 अंक मिले। इस सूची में अंतिम दस में पश्चिम बंगाल से बाहर के दो शहर हैं, जिसमें बिहार का सिमरी बख्तियारपुर 550.07 अंक के साथ 482वें और चांदबाली (586.71 अंक) 479वें स्थान पर रहा। बांकुरा 484वें, नॉर्थ बैरकपुर 483वें, चंपदानी 481वें, बंसबेरिया 480वें, खर्दाह, बैधबती तथा पानीहाटी क्रमशः 478वें, 477वें और 476वें स्थान पर है। दूसरी ओर, दस टॉप शहरों में इंदौर के अलावा भोपाल (3688.94 अंक), चंडीगढ़ (3649.38), नई दिल्ली नगर निगम (एनडीएमसी) (3597.19), विजयवाड़ा (3580.2), तिरुपति (3575.8), ग्रेटर विशाखापत्तनम नगर निगम (3546.5), मैसुर (3539.5), नवी मुंबई (3536.2) तथा पुणे (3471.34) का शुमार है। राज्यों की सूची में झारखंड पहला, महाराष्ट्र दूसरा तथा छत्तीसगढ़ ने तीसरा स्थान हासिल किया। यह सर्वेक्षण इस साल चार जनवरी से 10 मार्च के बीच कराया गया था। स्वच्छता की यह स्पर्धा 4,203 शहरी निकायों के बीच थी, जिसके तहत करीब 40 करोड़ नागरिक हैं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

सैशेल्स और भारत के बीच हुए 6 समझौते

  भारत दौरे पर आए राष्ट्रपति डैनी फॉरे ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। इसके बाद दोनों के बीच हुई द्वीपक्षीय व्राता में दोनों देशों के बीच 6 समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए। समझौतों के बाद साझा बयान जारी करते हुए प्रधआनमंत्री ने कहा कि भारत और सैशेल्स बड़े रणनीतिक साझेदार हैं। हम लोकतंत्र की मूल भावना का सम्मान करते हैं और हिंद महासागर में सुरक्षा, शांति और स्थिरता के लिए एक ही जियो स्ट्रेटेजिक विजन रखते हैं। हमने सैशेल्स को रक्षा क्षैत्र के लिए 100 मिलियन डॉलर क्रेडिट पर दिए हैं। वहीं सैशेल्स के राष्ट्रपति ने कहा कि पीएम मोदी के नेतृत्व में भारत के पास विजनरी समझदारी है कि क्या जरूरी है। खासतौर पर सुरक्षा और हमारे दौर की चुनौतियों के बारे में जिनमें क्लाइमेट चेंज, बहुपक्षीय व्यापार और अनेकता की दूरियों को कम करना है। इससे पहले सुबह राष्ट्रपति फॉरे का औपचारिक स्वागत हुआ जहां उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। इसके बाद प्रधानमंत्री ने उनका स्वागत किया। वहीं राष्ट्रपति फॉरे अपनी पत्नी के साथ दो दिन के गुजरात दौरे पर गए । शनिवार सुबह वे साबरमती आश्रम पहुंचे जहां उन्होंने गांधी जी का निवास ह्दयकुंज देखा और उनकी पत्नी ने चरखा काटा। इससे पहले उन्होंने भारतीय प्रबंध संस्थान का दौरा किया । सेशेल्स के राष्ट्रपति शुक्रवार शाम को ही अहमदाबाद पहुंच गए थे। शनिवार सुबह उन्होंने भारतीय प्रबंध संस्थान अहमदाबाद का दौरा किया। यहां उन्होंने अपने पुराने मित्र संस्थान के निदेशक प्रो. एरोल डिसूजा से भेट की। इसके बाद वे सीधे साबरमती आश्रम पहुंचे जहां आश्रम के ट्रस्टी अमृत मोदी व कार्तिके साराभाई ने उन्हें आश्रम का भ्रमण कराया । राष्ट्रपति डैनी फॉरे ने गांधीजी का निवास ह्दय कुंज देखा उनकी पत्नी ने यहां चरखा भी काटा। आश्रम के ट्रस्टी अमृत मोदी व कार्तिके साराभाई ने राष्ट्रपति डैनी फॉरे को एक चरखा तथा गांधीजी की तीन पुस्तकें भेट की। उनमें गाँधीजी की आत्मकथा , अहमदाबाद में अहिंसा नामक पुस्तक है। इसके बाद वे गांधीनगर स्थित जीएफएसयू में अपने देश के 18 पुलिस अधिकारियों से बात की जो यहां प्रशिक्षण लेने आये है। राज्यपाल ओपी कोहली के साथ उन्होंने दोपहर का भोजन किया। इसके बाद करीब 2.30 बजे वे गोवा के लिए रवाना हो गये। सेशेल्स के राष्ट्रपति डेनी फॉरे सात दिन के भारत यात्रा पर है। पहले चहण में दो दिन के गुजरात और गोवा के दौरे के बाद वे नई दिल्ली में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री से मिलेंगे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

कांग्रेस नेता सैफुद्दीन सोज

    कांग्रेस नेता सैफुद्दीन सोज ने अपने बयान में कश्मीर की आजादी का समर्थन किया है जिसके बाद भाजपा ने कांग्रेस पर तीखा हमला बोला है। नई दिल्ली। कश्मीर को लेकर अक्सर विवादास्पद बयान आते रहते हैं और इस बार एक वरिष्ठ कांग्रेस नेता सैफुद्दीन सोज ने विवादित बयान दे दिया है। सोज ने अपने बयान में कश्मीर की आजादी का समर्थन किया है जिसके बाद भाजपा ने कांग्रेस पर तीखा हमला बोला है। जानकारी के अनुसार कश्मीर को लेकर दिए एक बयान में सोज ने कहा है कि मुशर्रफ ने कहा था कि कश्मीरी पाकिस्तान में शामिल होना नहीं चाहते, उनकी पहली पसंद आजादी है। यह बयान तब भी सही था और आज भी। मैं भी आज यही कहूंगा लेकिन यह संभव नहीं है। कश्मीर को आजादी मिल जाएगी तो शांति भी होगी और लड़ाई भी नहीं होगी। सोज के इस बयान को लेकर भाजपा नेताओं ने कांग्रेस पर तीखा हमला बोला है। भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि एक केंद्रीय मंत्री के रूप में जब उनकी बेटी को जेकेएलएफ ने किडनैप किय था तो उन्हें कई लाभ मिले थे। इस तरह के लोगों की मदद करने का कोई फायदा नहीं। जो यहां रहना चाहता है वो लोकतंत्र को माने और अगर वो मुशर्रफ को पसंद करते हैं तो हम उन्हें एकतरफा यात्रा का टिकट दे देंगे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

passport

  लखनऊ। एक हिंदू-मुस्लिम दंपती को लखनऊ के पासपोर्ट अधिकारी ने इसलिए पासपोर्ट जारी करने से इन्कार कर दिया कि हिंदू महिला ने शादी के बाद अपना सरनेम नहीं बदला था। अधिकारी ने महिला व उसके पति को प्रताड़ित किया, फेरे लेने व सरनेम बदलने की हिदायत दी। इस बर्ताव से दुखी महिला ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को ट्वीट कर रोष जताया। आखिरकार सुषमा के दखल से पासपोर्ट जारी कर दिया गया। अधिकारी का ट्रांसफर कर दिया गया।   अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए मोहम्मद अनस सिद्दीकी और उनकी पत्नी तन्वी सेठ ने उनके साथ बुधवार को हुए दुर्व्यवहार की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को ट्वीट कर शिकायत करते हुए दखल देने का आग्रह किया था। दंपती ने 12 साल पहले शादी की थी। उनकी छह साल की बेटी भी है। सिद्दीकी ने बताया कि उनका आवेदन पासपोर्ट नवीनीकरण का और पत्नी तन्वी का नए पासपोर्ट का था।   गुरुवार को लखनऊ के क्षेत्रीय पासपोर्ट अधिकारी (आरपीओ) पीयूष वर्मा ने बताया कि दंपती को पासपोर्ट जारी कर विदेश मंत्रालय को रिपोर्ट भेज दी गई है। विवादित अफसर विकास मिश्रा का तबादला कर दिया गया है। इस पर तन्वी सेठ ने सुषमा व विदेश मंत्रालय को तत्काल कार्रवाई के लिए धन्यवाद दिया।   'जिस तरह लखनऊ के रतन स्क्वेयर स्थित पासपोर्ट दफ्तर के अधिकारी विकास मिश्रा ने हमारे साथ बर्ताव किया, उससे मैं बहुत गुस्से में और आहत हूं। मैं आपसे इंसाफ पाने के भरोसे के साथ ट्वीट कर रही हूं। हमारे साथ इसलिए बुरा सुलूक हुआ क्योंकि, मैंने एक मुस्लिम से शादी की है और अपना नाम नहीं बदला है। मुझे उम्मीद नहीं थी कि पासपोर्ट कार्यालय में भी मॉरल पुलिसिंग करने वाले लोग हैं। मेरा और पति मोहम्मद अनस सिद्दीकी का पासपोर्ट होल्ड कर दिया गया। शादी के 12 सालों में इतना अपमान कभी नहीं हुआ। शादी के बाद क्या नाम रखूं यह मेरी निजी पसंद है। अधिकारी ने बेहद शर्मनाक ढंग से और जोर-जोर से चिल्लाते हुए दुर्व्यवहार किया।'   तन्वी के पति मोहम्मद अनस सिद्दीकी ने पत्रकारों को बताया, 'पासपोर्ट अधिकारी ने पहले पत्नी का नाम पूछा और फिर कहा कि मुझे अपना धर्म बदल लेना चाहिए और फेरे लेना चाहिए। तभी पासपोर्ट बनेगा। मुझे नहीं पता कि उनसे मेरी कोई निजी रंजिश थी। अधिकारी हमारे नाम देखकर ही भड़क उठे थे।'   विवादित अफसर विकास मिश्रा ने अपनी सफाई में कहा 'मैंने तन्वी सेठ को पासपोर्ट आवेदन में नाम उनके निकाहनामे के मुताबिक नाम 'शाजिया अनस' करने को कहा था। यह नाम उनकी फाइल में भी होना चाहिए। हम यह जांच करते हैं कि किसी ने पासपोर्ट बनवाने के लिए अपना नाम तो नहीं बदल लिया है। लेकिन महिला ने अपना नाम निकाहनामे के अनुसार करने से इन्कार कर दिया। यदि वह हां करतीं तो मैं उन्हें 'ए' सेक्शन में भेजता और डेटा बदलने का काम होता। मैं एक धर्म निरपेक्ष व्यक्ति हूं। मैंने खुद अंतरजातीय विवाह किया है।'   आरपीओ वर्मा ने बताया कि पासपोर्ट नियम आसान बनाए गए हैं। अब विवाह प्रमाणपत्र पेश करना भी अनिवार्य नहीं है। धर्म का पासपोर्ट जारी करने से कोई संबंध नहीं है। हम हमारे स्टाफ को नए नियम के बारे में लगातार परामर्श दे रहे हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

NSG

  श्रीनगर। कश्मीर घाटी में आतंकरोधी अभियानों में आवश्यकता अनुरूप सक्रिय भूमिका निभाने के लिए नेशनल सिक्योरिटी गार्ड (एनएसजी) का एक दस्ता घाटी पहुंच चुका है। यह दस्ता बीते एक पखवाड़े से श्रीनगर एयरपोर्ट के पास सीमा सुरक्षाबल के एक प्रशिक्षण केंद्र में पुलिस, सीआरपीएफ और बीएसएफ से चुने गए जवानों के साथ आतंकरोधी अभियानों के अभ्यास में जुटा हुआ है।    एनएसजी को जम्मू कश्मीर में आतंकरोधी अभियानों के लिए तैनात करने की योजना गत वर्ष बनी थी और इस प्रस्ताव पर औपचारिक मुहर गत मई माह के दौरान ही केंद्रीय गृह मंत्रालय ने लगाई है। संबंधित अधिकारियों ने बताया कि एनएसजी कमांडो का दस्ता पूरी तरह जम्मू कश्मीर पुलिस के अधीन रहेगा, क्योंकि आतंकरोधी अभियानों के संचालन की नोडल संस्था राज्य पुलिस ही है। स्थानीय हालात से अवगत होने और अन्य सुरक्षा एजेंसियों के तौर तरीकों को समझने के बाद ही यह दस्ता सक्रिय रूप से आतंकरोधी अभियानों में शामिल होगा।   जम्मू कश्मीर में एनएसजी के कमांडो 1990 के दशक में भी आतंकरोधी अभियानों के लिए आ चुके हैं, लेकिन एनएसजी को राज्य में आतंकरोधी अभियानों के लिए स्थायी तौर पर पहली बार तैनात किया जा रहा है। संबंधित अधिकारियों ने बताया कि एनएसजी कमांडो हाउस इंटरवेंशन और एंटी हाईजैकिग में विशेषज्ञ माने जाते हैं। इसलिए इन्हें श्रीनगर एयरपोर्ट के पास ही रख जा रहा है।   श्रीनगर में आए एनएसजी कमांडो अत्याधुनिक हैकलर, कोच एमपी-5 सब मशीनगन, स्नाइपर राइफलों और दिवार के आरपार देखने वाले राडार और सी-4 विस्फोट से लैस हैं।   एनएसजी कमांडो को हर आतंकरोधी अभियान का हिस्सा नहीं बनाया जाएगा, बल्कि इन्हें विशेष परिस्थितियों में ही शामिल किया जाएगा। विशेषकर जब किसी बड़ी इमारत में आतंकी घुसे हों या आबादी वाले इलाके में कोई ऑपरेशन करना हो।   एनएसजी का गठन 1984 में ऑपरेशन ब्लू स्टार के बाद हुआ था। गुजरात के अक्षरधाम मंदिर पर हुए आतंकी हमले के अलावा मुंबई हमलों और पठानकोट एयरबेस पर आतंकी हमले के समय भी एनएसजी कमांडो की सेवाएं ली गई थीं। मौजूदा समय में एनएसजी में 7500 अधिकारी और जवान हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

शहीद औरंगजेब

आतंकियों द्वारा अगवाकर मौत के घाट उतार दिए गए शहीद औरंगजेब का शव शनिवार को ईद के दिन उनके पैतृक गांव पहुंचा। पुंछ। जिस ईद को मनाने के लिए औरंगजेब छुट्टी लेकर घर के लिए निकला था वो ईद भी आई और औरंगजेब भी घर पहुंचा लेकिन जिंदा नहीं बल्कि कफन में लिपटा हुआ। आतंकियों द्वारा अगवाकर मौत के घाट उतार दिए गए शहीद औरंगजेब का शव शनिवार को ईद के दिन उनके पैतृक गांव पहुंचा। पार्थिव शरीर के गांव में पहुंचते ही पूरा गांव उमड़ पड़ा। हर कोई इस हीरो को अंतिम विदाई देना चाहता था। नम आंखों के साथ पिता बेटे के शव के आगे चलते रहे। दरअसल, शुक्रवार को खराब मौसम की वजह से औरंगजेब की पार्थिव देह उनके गांव नहीं पहुंच पाई थी। ईद के इस मुबारक मौके पर औरंगजेब के घर और गांव में मातम पसरा हुआ है। शहीद औरंगजेब के पिता ने कहा- 72 घंटों में हत्यारों को ढेर करो नहीं तो खुद उठा लूंगा बंदूक बेटे का शव देख पिता भावुक हो गए। उन्होंने कहा कि मेरे बेटे ने अपना वादा निभाया है। वो देश के लिए शहीद होकर लौटा है। मैं राज्य और केंद्र सरकार से अपील करता हूं कि इन आतंकियों का खात्म करें। बता दें कि औरंगजेब को आतंकियों ने तब अगवा कर लिया था जब वो ईद की छुट्टी मनाने के लिए घर आ रहे थे। अगवा करने के बाद आतंकियों ने उनके साथ मारपीट करके हत्या कर दी। इसके बाद उनका शव पुलवामा के गुसो में मिला था। औरंगजेब की शहादत के बाद आतंकियों ने उनका एक वीडियो भी जारी किया है जिसमें वो उससे पिछले दिनों घाटी में हुए एनकाउंटर्स की जानकारी ले रहे हैं।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

अटल बिहारी वाजपेयी AIIMS में भर्ती

देश के पूर्व प्रधानमंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता अटल बिहारी वाजपेयी को सोमवार को एम्स में भर्ती करवाया गया है। नई दिल्ली। देश के पूर्व प्रधानमंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता अटल बिहारी वाजपेयी को सोमवार को एम्स में भर्ती करवाया गया है। वाजपेयी का स्वास्थ्य ठीक है और उन्हें रूटीन चेकअप के लिए अस्पताल में भर्ती किया गया है। खबरों के अनुसार आज रात 8 बजे तक उन्हें डिस्चार्ज किया जा सकता है। बता दें कि पूर्व प्रधानमंत्री लंबे समय से अस्वस्थ्य हैं और समय-समय पर उनका रूटीन चेकअप होता रहता है। इस बार भी डॉक्टरों की सलाह पर ही उन्हें अस्पताल ले जाया गया है। अटल बिहारी वाजपेयी की आखिरी तस्वीर 2015 में तब सामने आई थी जब उन्हें देश के सर्वोच्च सम्मान भारत रत्न से नावाजा गया था।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

प्रणब मुखर्जी

प्रणब मुखर्जी के नागपुर स्थित संघ मुख्यालय जाने और कार्यक्रम में संबोधन देने को लेकर लगातार बयानबाजी जारी है। उनके इस कदम से जहां कांग्रेस में खलबली मची थी वहीं उनकी बेटी शर्मिष्ठा ने भी अपने पिता को ऐसा ना करने की नसीबत दी थी। इस सब के बावजूद प्रणब कार्यक्रम में शामिल हुए बल्कि संबोधन भी दिया। हालांकि, इसके बाद उनकी कुछ फर्जी तस्वीरें भी वायरल हुईं। इस पूरे घटनाक्रम को लेकर अब प्रणब के बेटे अभिजीत ने नाराजगी जताई है। इंडियन एक्सप्रेस के कॉलम दिल्ली कॉन्फिडेंशियल में छपी रिपोर्ट के अनुसार अभिजीत मुखर्जी के टीएमसी में शामिल होने की अफवाहें उड़ रही हैं। फिलहाल अभिजीत अपने पिता की सीट जंगीपुर से सांसद हैं। रिपोर्ट के अनुसार हालांकि, टीएमसी ने पहले भी अभिजीत को संपर्क किया था लेकिन तब उन्होंने यह कहते हुए इनकार कर दिया था कि टीएमसी में जाना उनके पिता के लिए अपमानजनक होगा। लेकिन प्रणब के नागपुर जाने के बाद अब कहा जा रहा है कि अभिजीत फिर से टीएमसी के ऑफर पर विचार कर रहे हैं। दूसरी तरफ शिवसेना नेता संजय राउत ने दावा किया है कि संघ प्रणब मुखर्जी को 2019 के चुनाव में पीएम उम्मीदवार बना सकता है। हालांकि, शिवसेना के इस दावे को उनकी बेटी शर्मिष्ठा ने यह कहते हुए खारिज किया है कि उनके पिता अप सक्रिय राजनीति में नहीं लौटेंगे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

amit shah

भाजपा के समर्थन के लिए संपर्क अभियान के तहत पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने गुरुवार को चंडीगढ़ में शिरोमणि अकाली दल के सरपरस्त प्रकाश सिंह बादल से मुलाकात की। इस दौरान वहां सुखबीर बादल भी मौजूद थे। इस मुलाकात के साथ शाह ने पंजाब में भाजपा के विस्तार का रास्ता बनाने की ओर कदम बढ़ाएं वहीं दोनों दिग्गज नेताओं ने 2019 लोकसभा चुनाव की रणनीति पर भी चर्चा की। यह पहला बड़ा मौका है, जब दोनों दलों के नेताओं की आमने-सामने इस तरह मुलाकात हो रही है। शिरोमणि अकाली दल एनडीए का सबसे पुराना साथी है। 1998 में जब अटल बिहारी वाजपेयी सरकार बनाने को लेकर दूसरी पार्टियों का समर्थन जुटा रहे थे, तो प्रकाश सिंह बादल ने सबसे पहले बिना शर्त भाजपा को समर्थन दिया था। यही नहीं अकाली-भाजपा गठबंधन में अभी तक कोई खटास भी नहीं आई है। पंजाब में दोनों दलों ने मिलकर अभी तक तीन कार्यकाल पूरे किए हैं। 2014 में भी अकाली दल के पास सीटें कम होने के बावजूद नरेंद्र मोदी ने बीबी हरसिमरत कौर बादल को कैबिनेट में लेकर अपने गठजोड़ साथी पर विश्वास जताया। यह अलग बात है कि दोनों पार्टियों के प्रदेश स्तरीय नेतृत्व में खटपट लगी रहती है। अकाली दल पिछले चार साल से यह महसूस कर रहा है कि शीर्ष भाजपा नेतृत्व और केंद्र सरकार ने उन्हें वह सहयोग नहीं दिया, जिसकी उन्हें आस थी। अब कर्नाटक में सरकार बनाने में नाकाम रहने के बाद जिस तरह से अमित शाह पुराने सहयोगियों को मनाने की राह पर चल पड़े हैं, उससे अकाली दल की बांछें खिल गई हैं। शिरोमणि अकाली दल के सरपरस्त प्रकाश सिंह बादल के साथ मीटिंग कर अमित शाह भाजपा के सभी लोकसभा प्रभारियों व कोर ग्रुप के साथ बैठक करेंगे। इसमें पार्टी का प्रदेश नेतृत्व तीन की बजाय पांच सीटों की अकाली दल से मांग कर सकता है। पार्टी सूत्रों का कहना है कि पार्टी श्री आनंदपुर साहिब और लुधियाना सीटें अकाली दल से लेना चाहती है। उनका कहना है कि दोनों ही सीटें हिदू प्रभाव वाली हैं। लुधियाना सीट वैसे भी अकाली दल पिछले दो बार से लगातार हार रहा है, ऐसे में यह सीट भाजपा को देकर एक बार नया प्रयोग किया जा सकता है। इस अभियान को अमित शाह चंडीगढ़ में भी बढ़ाएंगे। इस अभियान के तहत वह देशभर में बड़ी हस्तियों से मिल रहे हैं। चंडीगढ़ में वह पूर्व ओलंपियन बलबीर सिंह से मुलाकात करेंगे। इन बैठकों के माध्यम से पार्टी नरेंद्र मोदी सरकार की उपलब्धियों को लोगों तक पहुंचाना चाहती है। इसके अलावा वह शहर के व्यापारियों व अन्य प्रतिष्ठित लोगों से मिलेंगे।   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

नमो ऐप

नमो ऐप के माध्यम से सरकारी योजनाओं का लाभ लेने वाले लोगों से बात करने की प्रक्रिया में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को स्वास्थ्य योजनाओं के लाभार्थियों से बात की। इस दौरान प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार द्वारा उठाए गए कदमों से गरीब और मध्यम वर्ग के लोगों को फायदा हुआ है। पीएम ने इस बातचीत में उन लोगों के अनुभव भी पूछे जिन्हें भारतीय जनऔषिधि पारियोजना, किफायती कार्डियाक स्टेंट और घुटना प्रत्यारोपण का लाभ मिला है। बातचीत में लाभार्थियों ने भी खुलकर मोदी सरकार की योजनाओं की तारफी की। वहीं, पीएम मोदी ने कहा कि उनकी सरकार ने अच्छी और सस्ती स्वास्थ्य सेवाएं जो गरीब से गरीब व्यक्ति तक पहुंच सके इसके लिए अच्छे अस्पतालों का निर्माण और डॉक्टरों की सीटें बढ़ाने का काम किया है। इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए युवा उद्यमियों से बात की थी।स्टार्ट अप इंडिया के तहत अपना स्वरोजगार स्थापित करने वाले युवा उद्यमियों से उन्होंने कहा कि आज हमारा युवा रोजगार मांगने वाला नहीं बल्कि रोजगार देने वाला बन रहा है। उन्होंने कहा, 'हम दुनिया के सबसे युवा देशों में से एक हैं। वार्ता के मुख्य अंश प्रधानमंत्री जन औषधि परियोजना के तहत हमने सुनिश्चित किया है कि देश की जनता को दवाइयां कम से कम कीमतों में मिल सके ,किसी भी बीमारी में गरीब के लिए सबसे बड़ी चिंता होती है दवाई, हमने यह सुनिश्चित किया है कि गरीबों को सस्ती दवाई मिल सकें। कटक से जन औषधि केंद्र के लाभार्थी मोहंती दास ने पीएम मोदी को बताया कि पहले उनका महीने में 3 हजार के करीब दवाई का खर्च था, जो अब सिर्फ 500 रुपये तक रह गया है।  ह्रदय रोगियों को सहूलियत देने के लिए हमारी सरकार ने स्टेंट के दामों में 80 से 90% तक की कमी की है। पहले जो स्टेंट 2 -2.5 लाख का मिलता था, अब वो ज़्यादा से ज़्यादा 25 हज़ार में मिलता है ,हर सफलता और समृद्धि का आधार स्वास्थ्य है और हमने विश्व की सबसे बड़ी स्वास्थ्य सेवा 'आयुष्मान भारत' योजना को लागू किया अलवर, राजस्थान से स्वास्थ्य योजना के तहत घुटना प्रत्यारोपण की लाभार्थी लक्ष्मी देवी ने बताया कि वो बहुत परेशान थीं, डॉक्टर्स करीब 4 लाख रुपये मांग रहे थे। फिर मोदी सरकार की योजना के बारे में सुना। आज उनकी जिंदगी खुशहाल है और बहुत सस्ते में उनका इलाज हो गया। स्वास्थ्य योजना के लाभार्थी विजय ने बताया कि डायलिसिस के लिए हर महीने 30-40 हजार रुपया ख़र्च करना पड़ता था लेकिन अब डायलिसिस योजना से इलाज एक दम फ़्री हो रहा है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

 रसोई गैस

  महंगे पेट्रोल-डीजल की मार झेल रहे उपभोक्ताओं को अब रसोई गैस भी सताएगी। दरअसल, तेल एवं गैस कंपनियों की ओर से घरेलू गैस सिलेंडर की कीमत 52 रुपये बढ़ा दी गई है। कॉमर्शियल सिलेंडर भी 82.50 रुपये महंगा हो गया है। नई दरें एक जून से प्रभावी होंगी। आज से देश के बड़े महानगरों में एलपीजी की कीमत इस प्रकार से तय हो गई है। दिल्ली में प्रति सिलिंडर एलपीजी 493.55 रुपए, कोलकाता में प्रति सिलिंडर एलपीजी 496.65, मुंबई में प्रति सिलिंडर एलपीजी 491.31 जबकि चेन्नई में प्रति सिलिंडर एलपीजी 481.84 रुपए की कीमत से उपलब्ध की जाएंगी।  14.2 किलो वाला गैर रियायती रसोई गैस सिलेंडर अब तक 734 रुपये में उपलब्ध होता था। एक जून से यह 786 रुपये में मिलेगा। इसकी कीमत 52 रुपये बढ़ गई है। इसी तरह से 19.2 किलो वाला कॉमर्शियल सिलेंडर अब 1,401 रुपये में मिलेगा। अब तक इसकी कीमत 1,318.50 रुपये थी। इसकी कीमत 82.50 रुपये बढ़ाई गई है। रसोई गैस सब्सिडी जून में प्रति सिलिंडर 288.28 रुपये मिलेगी। मई माह में यह राशि 240.72 रुपये थी। इसमें 47.56 रुपये की वृद्धि हुई है। हर महीने के अंत में तेल एवं गैस कंपनियां गैस कीमतों की समीक्षा करती हैं। इस वृद्धि से वैसे रसोई गैस उपभोक्ताओं की परेशानी बढ़ेगी जो बिना सब्सिडी सिलिंडर लेते हैं। इसके साथ ही कॉमर्शियल सिलेंडर का उपयोग करने वालों की भी मुसीबत बढ़ेगी। कॉमर्शियल सिलेंडर का उपयोग होटल, रेस्टोरेंट आदि में किया जाता है। मालूम हो कि मई माह में गैर रियायती और कॉमर्शियल सिलेंडर की कीमतों में मामूली स्तर पर कमी आई थी। घरेलू रसोई गैस सिलेंडर की कीमत अप्रैल में 735 रुपये थी जो एक रुपये की कमी के साथ मई माह में 734 रुपये हो गई थी। इसी तरह से कॉमर्शियल सिलेंडर जो अप्रैल माह में 1327 रुपये में उपलब्ध था वह मई महीने में 8.50 रुपये सस्ता होकर 1318.50 रुपये हो गया था।    

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

छुट्टी पर किसान, शहरों में दूध-सब्जी की सप्लाई नहीं

  देश में पहली बार शुक्रवार से मध्यप्रदेश ,हरियाणा समेत अन्य राज्यों के किसान 10 दिन की छुट्टी पर  हैं। किसान एक से 10 जून तक शहरों में फल-सब्जियों और दूध की सप्लाई नहीं करेंगे। किसानों ने इन 10 दिनों में शहर की दुकानों, शोरूम और सुपर बाजार का रुख नहीं करने का भी अहम निर्णय लिया है। अगर शहरी लोगों को फल-दूध या सब्जी चाहिए तो उन्हें गांवों का रुख करना पड़ेगा। दाम भी किसान ही तय करेंगे। किसान यह सब केंद्र व राज्य सरकारों की नीतियों के विरोध में कर रहे हैं। राष्ट्रीय किसान महासंघ के प्रतिनिधियों ने एक से 10 जून तक शहरों में दूध व फल-सब्जियों की आपूर्ति नहीं होने देने की रणनीति बनाई है। राष्ट्रीय किसान महासंघ के वरिष्ठ सदस्य व भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश प्रधान गुरनाम सिंह चढूनी और प्रदेश प्रवक्ता राकेश कुमार ने बताया कि स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू नहीं करने व कर्ज माफी नहीं होने पर किसानों को यह कदम उठाना पड़ रहा है। उन्होंने बताया कि 62 किसान संगठनों ने इस दौरान गांवों से शहरों को खाद्य पदार्थो की सप्लाई नहीं होने देने की पूरी रणनीति बना ली है। गुरनाम चढूनी और राकेश कुमार ने साफ किया कि इस बंद में वह कोई रोड जाम नहीं करेंगे। किसान अपने घर और गांव में बैठकर शहर और सरकार को अपना दर्द समझाएंगे। आंदोलन के दौरान किसान आढ़तियों से भी पूरी तरह दूरी बनाकर रखेंगे। किसानों द्वारा एक दूसरे से उधार लेकर 10 दिन तक आर्थिक लेन-देन किया जाएगा।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव हिंसा में 6 की मौत

पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनाव के लिए मतदान जारी है। सुबह 7 बजे से शुरू हुए मतदान के बाद 11 बजे तक 26.28 प्रतिशत वोट पड़े थे। इस बीच कड़े सुरक्षा इंतजामों के बावजूद हुई हिंसा में अब तक 6 लोगों की मौत हो गई है वहीं 50 से ज्यादा घायल हो गए हैं। जानकारी के अनुसार दक्षिण 24 परगना में टीएमसी कार्यकर्ता की हत्या कर दी गई वहीं वाम नेता की पत्नी की हत्या कर दी गई। इसके अलावा अलीपुरद्वार में कई लोग घायल हुए हैं जबकि उत्तर 25 परगना में एक क्रूड बम धमाके में 20 लोग घायल हुए हैं। इससे पहले राज्य के कूच बिहार में हुई झड़प में 20 से ज्यादा लोग घायल हो गए वहीं कई वाहनों को नुकसान पहुंचा है। स्थानीय लोगों के अनुसार वो लोग मतदान करने के लिए गए थे लेकिन इस बीच टीएमसी के समर्थकों ने उ न पर हमला कर दिया। सभी घायलों को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया है। इसके अलावा मुर्शिदाबाद में बूथ कैप्चरिंग की घटना सामने आई है जबकि पनीहाटी में एक भाजपा कार्यकर्ता को चाकू मारकर घायल कर दिया गया है। राज्य चुनाव में हिंसा को लेकर भाजपा ने टीएमसी पर निशाना साधा है। भाजपा नेता सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि यह बेहद निंदनीय है। घटनाएं बताती हैं कि पश्चिम बंगाल में टीएमसी के राज में राजनीतिक हिंसा ने पूरे राज्य को चपेट में ले लिया है और यह लोकतंत्र के लिए खतरे की घंटी है। बता दें कि चुनाव के पहले राज्य में हुई हिंसा को देखते हुए सभी बूथों पर सशस्त्र बलों की तैनाती की गई है। अतिसंवेदनशील व संवेदनशील बूथों पर विशेष नजर रखी जा रही है। इस बार पंचायत चुनाव में सत्ताधारी टीएमसी और विपक्षी भाजपा के बीच जोरदार लड़ाई देखने को मिल रही है। अगले साल होने आम चुनावों से पहले के प्रमुख चुनाव होने के कारण इस चुनाव की अहमियत काफी बढ़ गई है। राजनीतिक दल इसे लोकसभा चुनावों से पहले अपनी ताकत के परीक्षण के तौर पर देख रहे हैं। चुनावों की गणना 17 मई को होगी। अगर किसी कारणवश जरूरत पड़ी तो 16 मई को पुनर्मतदान हो सकते हैं। पश्चिम बंगाल राज्य निर्वाचन आयोग के मुताबिक, 3,358 ग्राम पंचायतों की 48,650 में से 16,814 सीटों पर उम्मीदवार निर्विरोध निर्वाचित हुए हैं। वहीं 31 पंचायत समितियों की 9,217 में से 3,059 सीटों पर उम्मीदवारों को निर्विरोध चुना गया है। इसी तरह 20 जिला परिषदों की 825 में से 203 सीटों पर मुकाबला निर्विरोध रहा है। चुनाव के लिए नामांकन पत्र दाखिल करने के दौरान हुई हिंसा को लेकर राज्य में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस, भाजपा, और वाम मोर्चा के नेताओं ने एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाए। विपक्ष का आरोप है कि सत्तारूढ़ टीएमसी ने नामांकन प्रक्रिया के दौरान हिंसा की, वहीं तृणमूल ने इन आरोपों को खारिज करते हुए कहा था कि विपक्ष का कोई जनाधार नहीं है और वह चुनाव से बचने का प्रयास कर रहे थे। तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों पर हिंसा का आरोप लगाते हुए विपक्षी पार्टियों हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में भी गुहार लगाई थी। वहीं नामांकन दाखिल करने से रोके जाने के विपक्ष के आरोपों के चलते हाईकोर्ट ने उम्मीदवारों को वाट्सऐप और ईमेल के जरिये भी नामांकन भरने की इजाजत दी थी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

लोकतंत्र में हिंसा के लिए कोई जगह नहीं : मोदी

  कर्नाटक विधानसभा चुनाव के पहले पीएम नरेंद्र मोदी लगातार रैलियां और नमों ऐप के माध्यम से कार्यकर्ताओं से बात कर रहे हैं। इसी कड़ी में उन्होंने सोमवार को भी ऐप के जरिए युवा मोर्चा कार्यकर्ताओं से बात की। अपनी बातचीत में पीएम मोदी ने कहा कि लोकतंत्र में हिंसा के लिए कोई जगह नहीं है। पीएम बोले कि '1984 में पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हत्या के बाद हिंसा भड़की थी। ऐसा लगता है कि उसके बाद से ही यह हिंसा देश के राजनीतिक तंत्र का हिस्सा बन चुकी है। त्रिपुरा, केरल और कर्नाटक में हमारे कार्यकर्ताओं की हत्या हुई है। यह लोकतंत्र में अच्छा नहीं लगता, इस हिंसा को रोका जाना चाहिए।' प्रधानमंत्री ने कहा कि 'जब एक व्यक्ति अपने आप में भरोसा खो देता है और उसमें सच बोलने और मानने की क्षमता नहीं होती तो वो राजनीतिक हिंसा का रास्ता चुनता है। ' इससे पहले पीएम ने कहा, ‘कर्नाटक का चुनाव भाजपा के कार्यकर्ता नही बल्कि कर्नाटक की जनता लड़ रही है।‘ युवाओं की तारीफ करते हुए पीएम ने कहा कि कर्नाटक के युवाओं ने हर क्षेत्र में खुद को साबित किया है। बता दें कि 1 मई से ही उन्होंने कर्नाटक में चुनाव प्रचार की कमान अपने हाथ में ले रखी है और अब वे पार्टी कार्यकर्ताओं को भी नमो मंत्र दे रहे हैं। इसकी जानकारी पीएम ने खुद अपने ट्विटर हैंडल पर दी। उन्होंने लिखा, 'हमारे युवा कार्यकर्ता जोश से लबरेज हैं और केंद्र सरकार के बेहतर काम को लोगों तक पहुंचाने में काफी अहम भूमिका निभा रहे हैं। ये कार्यकर्ता जमीनी स्तर पर पार्टी के लिए काम कर रहे हैं और लगातार पार्टी की आगे पहुंचाने में अपनी अहम भूमिका निभा रहे हैं।' बता दें कि इससे पहले एक मई को पीएम मोदी ने भाजपा के किसान मोर्चा के कार्यकर्ताओं से भी नमो ऐप के जरिये संवाद किया था और उनका मनोबल बढ़ाने की कोशिश की थी। कर्नाटक चुनाव के मद्देनजर प्रधानमंत्री मोदी तमाम रैलियां कर रहे हैं। उन्होंने 1 मई से अपना चुनावी अभियान शुरू किया था पहले ही दिन धुआंधार तीन रैलियां की थी। वहीं, राज्य में पीएम की रैली में बढ़ते जनसैलाब के बाद उन्होंने रैलियों की संख्या भी बढ़ा दी गई है। अब वे राज्य में 21 रैलियां करेंगे। जैसे-जैसे चुनाव की तारीख नजदीक आ रही है, वैसे-वैसे भाजपा और कांग्रेस की आक्रमकता बढ़ती जा रही है। लगातार दोनों ही दल के शीर्ष नेता एक दूसरे पर निशाना साध रहे हैं। गौरतलब है कि कर्नाटक में 12 मई को मतदान होगा, जबकि 15 मई को चुनाव के परिणाम घोषित किये जाएंगे।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

सार्वजनिक स्थानों पर न पढ़ी जाए नमाज :खटटर

  दिल्ली से सटे गुरुग्राम में खुले में नमाज पढ़ने को लेकर उपजे विवाद के बाद हरियाणा सरकार ने बड़ा बयान दिया है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खटटर ने विदेश जाने से पहले दो टूक कह दिया कि निर्धारित स्थानों पर ही नमाज पढ़ी जानी चाहिए। सार्वजनिक स्थान इस कार्य के लिए निर्धारित नहीं होते। चंडीगढ़ में  पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि नमाज पढ़ने के लिए मस्जिद और ईदगाह होते हैं। इसके अलावा अपने निजी स्थान अथवा घर पर नमाज पढ़ी जा सकती है, लेकिन सार्वजनिक स्थानों पर नमाज पढ़कर प्रदर्शन करना उचित नहीं है। यदि नमाज पढ़ने के लिए निर्धारित स्थान कम पड़ते हैं तो संबंधित संस्थाओं के माध्यम से इनका निर्माण कराया जा सकता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार की कानून व्यवस्था पर पूरी तरह से निगाह है और स्थिति को किसी सूरत में नहीं बिगड़ने दिया जाएगा।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

yogi आंधी-तूफान

  यूपी में आए आंधी-तूफान से हुई तबाही और मौतों के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को अस्पताल पहुंचकर पीड़ितों से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने अस्पताल में सुविधाओं का भी जायजा लिया। इसके बाद वो तूफान प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण भी करेंगे। खेरागढ़ के बुरहरा में मंच से सीएम योगी आदित्यनाथ ने की राहत की घोषणा। आपदा प्रभावित खेरागढ़ क्षेत्र में नही होगी राजस्व और बिजली बिल की वसूली। तूफान में मकान के साथ जिन परिवारों का सामान भी नष्ट हो गया है, उनको बर्तन और राशन प्रशासन की ओर से दिया जाएगा। जिन परिवारों के पास कच्चा मकान था वह भी तूफान में ढह गया, उनको तत्काल एक एक आवास दिया जाएगा। सीएम ने मंच से संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि सरकार मृतकों को वापस तो नही ला सकती, लेकिन उनके परिजनों की मदद करके उनका दुख बांट सकती है। हम इसीलिए यहां आये है। बता दें कि राज्य में आंधी तूफान से मची तबाही के बाद कर्नाटक में प्रचार के लिए गए योगी ने दौरा बीच में छोड़कर लौट आए हैं। वैसे तो उन्हें शनिवार को वापस लौटना था लेकिन शुक्रवार को ही वापस लौट आए। रात में वह आगरा पहुंच गए। राज्य सरकार के प्रवक्ता ने शुक्रवार को बताया कि मुख्यमंत्री आज आगरा के आपदा प्रभावित क्षेत्रों का भ्रमण करेंगे। वह जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ बैठक कर राहत और पुनर्वास कार्यों की समीक्षा भी करेंगे। आगरा के बाद मुख्यमंत्री कानपुर नगर का भी दौरा करेंगे। कानपुर नगर के आपदा प्रभावित क्षेत्रों के भ्रमण के बाद वह वहां भी अधिकारियों के साथ राहत और पुनर्वास की समीक्षा करेंगे। आपदा प्रभावित जिलों के अधिकारियों को राहत कार्य प्रभावी रूप से संचालित करने, घायलों का समुचित इलाज सुनिश्चित कराने तथा पीड़ितों को हर संभव मदद उपलब्ध कराने के निर्देश पूर्व में दिए जा चुके हैं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

कांग्रेस खेलती है सत्ता का खेल:मोदी

  कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए ज्यादा दिन नहीं बचे हैं और ऐसे में सियासी पारा चढ़ गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को राज्य में चार रैलियां सबोधित करने पहुंचे। उन्होंने टुमकुर में अपनी पहली रैली को संबोधित किया और उनके निशाने पर एक बार फिर कांग्रेस थी। प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि कांग्रेस पिछले कई सालों से गरीब, गरीब चिल्लाती आ रही है लेकिन आजतक उनकी जिंदगी बेहतर करने के लिए कुछ नहीं किया। अब उन्होंने गरीब कहना बंद कर दिया क्योंकि लोगों ने एक गरीब परिवार के शख्स को पीएम बना दिया। पीएम ने कहा कि कांग्रेस गरीब-गरीब की माला जपकर राजनीति कर रही है। कांग्रेस को 50 साल काम करने का मौका मिला लेकिन उनके लिए कुछ नहीं किया। अगर इस दौरान कांग्रेस किसान के खेत तक पानी पहुंचाती तो जमीन सोना उगलती। कांग्रेस रोज एक नया झूठ बोलती है। प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि इंदिरा गांधी के समय से कांग्रेस चुनाव जीतने के लिए लोगों को मूर्ख बनाती आ रही है। वो पार्टी झूठी है और वोट के लिए वो फिर झूठ बोलेंगे। वो किसानों के बारे में नहीं सोचते और ना ही गरीबों के बारे में। लोग कांग्रेस से परेशान हो गए हैं।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

फ्रीडम फाइटर केयूर भूषण का देहावसान

रायपुर में स्वतंत्रता संग्राम सेेनानी और पूर्व सांसद केयूर भूषण का गुरुवार शाम निधन हो गया। केयूर भूषण पिछले कुछ दिनों से अस्‍वस्‍थ थे और उनका अस्पताल में उपचार किया जा रहा था। केयर भूषण दो बार रायपुर से सांसद रहे चुके थे। उनकी पृथक छत्तीसगढ़ के आंदोलन में भी महत्‍वपूर्ण भागीदारी रही। जानकारी के अनुसार उन्‍होंने 80 - 90 के दशक में रायपुर का लोकसभा में प्रतिनिधित्व किया। वे दो बार कांग्रेस के टिकट पर रायपुर लोकसभा सीट से चुनाव लड़े।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

कर्नाटक चुनाव में धुआंधार प्रचार को जारी रखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को बेल्लारी, कलबुर्गी और बेंगलुरु पहुंचे। यहां उन्होंने चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस पर निशाना साधा। बेल्लारी में जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम ने कांग्रेस पर इतिहास को बर्बाद करने का आरोप लगाया। प्रधानमंत्री बोले कि कांग्रेस ने बल्लारी का इतिहास और लिजेसी को बर्बाद किया। शहर को बदनाम कर कांग्रेस ने यहा के लोगों का अपमान किया है। आपका उत्साह दिखाता है कि कांग्रेस कर्नाटक में हारने वाली है। प्रधानमंत्री आगे बोले कि राज्य में बढ़ते खनन माफिया को देखें, कांग्रेस सरकार ने राज्य में इसस निपटने के लिए कोई पॉलिसी नहीं बनाई। कर्नाटक में अब सिद्दा-रुपया सरकार है। इस सरकार ने राज्य को कर्ज में डूबो दिया है। भाजपा को इससे पहले जब राज्य की सेवा का मौका मिला तो हमने कई विकास कार्य किए। लेकिन दुख के साथ कहना पड़ रहा है कि राज्य में पानी के इतने स्त्रोत होने के बावजूद सरकार ने किसानों तक पानी नहीं पहुंचाया। इससे पहले कलबुर्गी में प्रधानमंत्री ने कहा कि यहां मौजूद भीड़ को देखकर लगता है कि कर्नाटक की जनता को मई की गर्मी मंजूर है लेकिन राज्य में कांग्रेस की सरकार नहीं। पीएम ने आगे कहा कि यह चुनाव कर्नाटक का भविष्य तय करेगा। यह महिलाओं की सुरक्षा और किसानों के विकास के लिए है ना कि सिर्फ विधायक चुनने के लिए। पीएम ने आगे कहा कि कांग्रेस सैनिकों और उनके त्याग का सम्मान नहीं करती। जब हमारे सैनिकों ने पाकिस्तान पर सर्जिकल स्ट्राइक की तो कांग्रेस ने मुझसे पूछा की इसके सबूत कहां हैं। कर्नाटक की धरती वीरों की धरती है। लेकिन कांग्रेस ने फील्ड मार्श करिअप्पा और जनरल थिमैया के साथ कैसा व्यवहार किया? इतिहास इसका गवाह है। 1948 में पाकिस्तान को हराने के बाद उस समय के प्रधानमंत्री नेहरू और रक्षा मंत्री रक्षा मंत्री कृष्णा मेनन ने जनरल थीमय्या का अपमान किया। कांग्रेस चाहती थी कि हमारे सैनिक सर्जिकल स्ट्राइक के दौरान बंदूकों की बजाय कैमरे लेकर जाते। प्रधानमंत्री आगे बोले कि कांग्रेस दलितों की बात करती है लेकिन वो धोखा दे रही है। पिछले चुनाव में उसने कहा था कि वो खड़गे को मुख्यमंत्री बनाएगी लेकिन ऐसा नहीं किया। कांग्रेस इसी तरह से राजनीति करती है। राहुल गांधी के कैंडल मार्च पर तंज कसते हुए कहा कि मैं कांग्रेस के लोगों से पूछना चाहता हूं जिन्होंने दिल्ली में कैंडल मार्च निकाला था कि तब उनकी कैंडल्स कहां थीं जब बिदार में एक दलित लड़की पर अत्याचार हुआ। इससे पहले प्रधानमंत्री ने सरदार पटेल को याद करते हुए कहा कि उनका कलबुर्गी से गहरा रिश्ता रहा है। सरदार पटेल ही थे जिन्होंने इसे देश के साथ जोड़ा। लेकिन सरदार पटेल के लिए तिरस्कार कांग्रेस के स्वभाव में है। कांग्रेस शहीदों और देशभक्तों को भुलाना चाहती है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat 

bus motihari

बिहार में गुरुवार को एक भीषणा हादसा हो गया। मुजफ्फरपुर से दिल्ली जा रही बस मोतिहारी के एनएच-28 पर कोटवा क्षेत्र में बंगरा के समीप मोगा होटल के पास अचानक पलट गई जिससे उसमें आग लग गई। बस में लगी आग से 27 लोगों की झुलसकर मौत हो गई है। बस का नंबर UP-75AT- 2312 है, जिसमें आग लगी है। इस दर्दनाक हादसे के एक घंटे के बाद फायरब्रिगेड की टीम पहुंची जिससे लोगों में आक्रोश है। बिहार के आपदा मंत्री दिनेश चंद्र यादव ने मोतिहारी बस हादसे में 27 यात्रियों की मौत की पुष्टि की है। घटना पर राज्यपाल सत्यपाल मलिक और सीएम नीतीश कु