Since: 23-09-2009

  Latest News :
बाबा साहब के सपनों को साकार करने वाली सरकार चुनें : मायावती.   भाजपा का संकल्प पत्र देशवासियों की एंबीशन पूरा करने का मिशन- प्रधानमंत्री.   फिल्म अभिनेता सलमान खान के घर के बाहर फायरिंग.   इजरायल-ईरान संघर्ष के हालात पर भारत की दोनों पक्षों से संयम बरतने की अपील.   प्रधानमंत्री मोदी की गेमिंग क्षमता से प्रभावित हुए युवा गेमर्स ने उन्हें ‘नमो ओपी’ दिया नाम.   अगर नरेन्द्र मोदी प्रधानमंत्री नहीं होते तो राम मंदिर का निर्माण नहीं हो पाता : राज ठाकरे.   प्रदेश में सबसे ज्यादा अपराध आदिवासी वर्ग पर हो रहे हैं: जीतू पटवारी.   44 घंटे तक रेस्क्यू के बाद भी बोरवेल में गिरे मासूम की नहीं बच पाई जान.   भाजपा ने बाबा साहब के योगदान को नई पहचान दीः नरेन्द्र मोदी.   जिन लोगों ने बाबा साहब को संसद जाने से रोका वही उनके नाम पर वोट मांग रहे : मुख्यमंत्री डॉ. यादव.   रीवा में बोरवेल में गिरे मासूम को निकालने के लिए रेस्क्यू जारी.   मां के साथ खेत पर गई दो बहनें तालाब में डूबी.   सड़क दुर्घटना में दो सगे भाइयों समेत तीन युवकों की मौत.   मैनपाट में घर में लगी आग की चपेट में आकर तीन बच्चे जिंदा जले.   बसपा ने छग की तीन सीटों के लिए की उम्मीदवारों की घोषणा.   सरोना ट्रेचिंग ग्राउंड को 5 दिन के भीतर साफ करने का अल्टीमेटम.   कोरबा में स्कूल वैन दुर्घटनाग्रस्त सात घायल.   कांग्रेस उम्मीदवार कवासी लखमा पर तीन थानों में दर्ज हुई एफआईआर.  

बेमेतरा News


raipur, Three youths,road accident

रायपुर /बेमेतरा।सड़क हादसे में बीती रात मोटरसाइकिल सवार दो सगे भाइयों सहित तीन युवकों की दर्दनाक मौत हो गई। हादसे की सुचना मिलते ही पुलिस टीम मौके पर पहुंची और शवों को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।तीनों मृतकों का रविवार सुबह पोस्टमार्टम जारी है।     पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार राष्ट्रीय राजमार्ग एनएच 30 ग्राम मटका ,चोरभट्टी के पास हुई दुर्घटना में दो सगे भाई कोमल साहू (21 ) और मुकेश साहू (22 ) और एक उनका दोस्त रवि यादव की मौत हो गई। तीनों युवक ग्राम अर्जुनी के रहने वाले थे। तीनों युवक अर्जुनी गांव से अपने दोस्त की शादी में बारात में शामिल होने के लिए मोटरसाइकिल से बंधी गांव गए थे और देर रात यहां से वापस लौट रहे थे, इसी दौरान यह हादसा हुआ।   घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस टीम मौके पर पहुंची और मृतकों के शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  14 April 2024

raipur, Passenger bus ,control and fell down

रायपुर /बेमेतरा।सिमगा के शिवनाथ नदी पुल पर रविवार देर शाम एक निजी यात्री बस अनियंत्रित होकर नीचे गिर गई। हादसे में 28 लोगों के घायल होने की खबर है। गंभीर रूप से घायलों को इलाज के लिए रायपुर डॉ. भीमराव आम्बेडकर हॉस्पिटल रिफर किया गया है। जिनमें 8 की हालत गंभीर बताई जा रही है। सभी का इलाज जारी है। बस बेमेतरा से सिमगा जा रही थी। ग्राम मटका के बागेश्वर ध्रुव का परिवार व रिश्तेदार सिमगा थाना क्षेत्र के ग्राम कामता में कलीराम ध्रुव के घर छट्ठी में शामिल होने के लिए जा रहा था।   बेमेतरा थाना प्रभारी चंद्रदेव वर्मा ने बताया कि सभी घायलों को उपचार के लिए शासकीय अस्पताल सिमगा में भर्ती किया गया था। बाद में 8 लोगों को गंभीर हालत में रायपुर रिफर किया गया है। विवेचना जारी है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  18 March 2024

raipur, Minister Ravindra Choubey,gram panchayats

रायपुर/बेमेतरा। जिले के विकासखंड साजा के ग्राम खैरझिटीकला में आज रविवार को लोकार्पण/भूमिपूजन एवं किसान सम्मलेन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें स्वच्छ सर्वेक्षण ग्रामीण 2023 अंतर्गत उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले 13 ग्राम पंचायतों को पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री रविन्द्र चौबे ने मोमेंटो प्रदान कर सम्मानित किया। इनमें मरतरा, अतरिया, बहेरा का, मल्दा, झाल, किरकी, टिपनी, राखी, सहसपुर, खुडमुडा, सिंगदेही, भिंभौरी एवं कुसमी शामिल हैं। उल्लेखनीय है कि ग्राम पंचायत किरकी को उत्कृष्ट ग्राम पंचायतों के श्रेणी में राज्य स्तर पर 25 सितंबर 2023 को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर कलेक्टर पीएस एल्मा, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत लीना कमलेश मंडावी, वरिष्ठ जनप्रतिनिधि बंशी पटेल सहित सरपंच, सचिव एवं बड़ी संख्या में ग्रामीणजन उपस्थित थे।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 October 2023

2000  carore rupees ka sarab ghotala

छत्तीसगढ़ में उजागर हुए 2000 करोड़ रुपए के शराब घोटाले को लेकर कांग्रेस सरकार के विरोध में भारतीय जनता पार्टी ने जिला स्तरीय महाधरना दिया। भाजपा नेताओं ने अपने संबोधन में कांग्रेस सरकार पर जमकर हमला बोला।बीजेपी नेताओं-कार्यकर्ताओं ने शहर के अग्रसेन चौक पर जिला स्तरीय महाधरना में विरोध प्रदर्शन किया। धरने को संबोधित करते हुए पूर्व गृहमंत्री रामसेवक पैकरा ने कहा कि कांग्रेस सरकार घोटालों की सरकार है। 2000 करोड़ का उजागर शराब घोटाला इसकी गवाही दे रहा है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को नैतिकता के आधार पर अविलंब इस्तीफा देना चाहिए।बीजेपी के वरिष्ठ नेता रामसेवक पैकरा ने कहा कि कांग्रेस सरकार छत्तीसगढ़ के मेहनतकश निवासियों का धन घोटालों के जरिए लूट रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार में छत्तीसगढ़ में विकास अवरूद्ध है, जनता भयभीत है, कानून-व्यवस्था हाशिये पर है। राज्य में जमकर भ्रष्टाचार किया जा रहा है। ईडी की कार्रवाई से सामने आए 2000 रुपए करोड़ के घोटाले को लेकर भाजपा आम जनता के बीच जा रही है। ऐसी भ्रष्ट सरकार को सत्ता में बने रहने का अधिकार नहीं है।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 May 2023

karnatka election congress party bhupesh baghel

  छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कर्नाटक चुनाव में जीत का लड्‌डू खाया। ये लड्‌डू कांग्रेस नेताओं और पत्रकारों को भी मुख्यमंत्री ने खिलाया।भूपेश बघेल ने मीडिया से बात की और कर्नाटक चुनाव को लेकर बड़ा बयान दिया। भूपेश बघेल ने कहा, हिमालय से लेकर अब समुद्र तक कांग्रेस ने सफलता हासिल की है। उन्होंने आगे कहा- भाजपा कांग्रेस मुक्त भारत की बात करती है। लेकिन अब दक्षिण भारत से भाजपा मुक्त हो रही है। भाजपा को पता था कि हारने वाले हैं अब टीवी में जेपी नड्‌डा की तस्वीर दिख रही है।भाजपा के लाेग मोदी की जगह योगी-योगी करते थे, बुलडोजर की बात करने लगे थे। छत्तीसगढ़ भाजपा के नेता अरुण साव को पता है कि प्रधानमंत्री मोदी का जादू खत्म हो गया है। इसलिए वो भी योगी और बुलडोजर की बात करने लगे। आज जो कामयाबी मिलने वाली है। इसके लिए मैं सोनिया गांधी, राहुल गांधी, प्रियंका गांधी और राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे समेत कर्नाटक स्टेट लीडरशिप को बधाई देता हूं।कर्नाटक की जनता ने जो फैसला दिया, इससे साफ है कि बजरंग बली कांग्रेस के साथ हैं। कर्नाटक में राहुल गांधी ने भारत जोड़ो यात्रा की। मैं भारत जोड़ो यात्रा में था। उसी समय से लग गया था झुकाव कांग्रेस की ओर है। इस पूरे चुनाव में रणनीति एक हिस्सा है। इसमें घोषणा पत्र, कार्यकर्ताओं का उत्साह ये सब मिलाकर जीत मिलती है। उसी का असर है। बड़ा राज्य जहां 224 सीटें और भाजपा की सरकार थी इसे हमने छीना,हिमाचल को भी छीना। अब कांग्रेस कार्यकर्ताओं में और आत्मविश्वास बढ़ेगा।  

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  13 May 2023

chattishgarh board ke natije ghodhit

छत्तीसगढ़ बोर्ड के 10वीं और 12वीं के नतीजे जारी हो गए। माध्यमिक शिक्षा मंडल के सभागृह में स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने रिजल्ट जारी किया। रायगढ़ की विधि भोंसले 12वीं की टॉपर रहीं। और जांजगीर के विवेक अग्रवाल दूसरे स्थान पर रहें। 10वीं में जशपुर के राहुल यादव ने पहला स्थान हासिल किया।मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सभी परीक्षार्थियों एवं उनके अभिभावकों को बधाई और शुभकामनाएं देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की है। उन्होंने कहा, दसवीं और 12वीं की परीक्षा में टॉप टेन में स्थान प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को हेलीकॉप्टर राइड कराया जाएगा। जिन बच्चों को आशा अनुरूप परिणाम प्राप्त नहीं हुआ है। उन्हें सीख लेते हुए आगे और मेहनत करना चाहिए। असफलता ही सफलता की सीढ़ी है। इसको ध्यान में रखते हुए वे निराश न हों। और दोबारा मेहनत से पढ़ाई करके सफलता प्राप्त करें।छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा आयोजित हाई स्कूल की परीक्षा में 3 लाख 30 हजार 681 परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल हुए, जिनमें 1 लाख 52 हजार 891 बालक और 1 लाख 77 हजार 790 बालिकाएं शामिल हुईं। जिनमें 3 लाख 30 हजार 055 परीक्षार्थियों के परीक्षा परिणाम घोषित किये गए। परीक्षार्थियों में पहली श्रेणी में उत्तीर्ण परीक्षार्थियों की संख्या 1,09,903 (33.30 फीसदी) है। दूसरी श्रेणी में उत्तीर्ण परीक्षार्थियों की संख्या 1,19,901 (36.32 फीसदी) है। और तीसरी श्रेणी में उत्तीर्ण परीक्षार्थियों की संख्या 17,914 (5.43 प्रतिशत) है। 03 परीक्षार्थी श्रेणी में उत्तीर्ण हुए हैं।वहीं 12वीं में 3,23,625 परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल हुए। जिनमें 1,43,919 बच्चे और 1,79,706 बच्चियों ने हिस्सा लिया जिनमें 3,23,266 परीक्षार्थियों के परीक्षा परिणाम घोषित किए गए। उत्तीर्ण परीक्षार्थियों की संख्या 2,58,500 है। 83.64 फीसदी बेटियां और 75.36 फीसदी बच्चे सफल हुए हैं। पहली श्रेणी में उत्तीर्ण परीक्षार्थियों की संख्या 87,140 (26.96 प्रतिशत) है। द्वितीय श्रेणी में उत्तीर्ण परीक्षार्थियों की संख्या 1,45,965 (45.15 प्रतिशत) है। और तीसरी श्रेणी में उत्तीर्ण परीक्षार्थियों की संख्या 25,377 (7.85 प्रतिशत) है। 18 परीक्षार्थी श्रेणी में उत्तीर्ण हुए हैं। 22,751 परीक्षार्थियों को पूरक परीक्षा देनी होगी।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  10 May 2023

raipur, Communal violence, two dead bodies

बेमेतरा/रायपुर। बेमेतरा जिले के बिरनपुर गांव में दो पक्षों के बीच हुये हिंसा में मंगलवार की सुबह दो और शव मिलने से तनाव बढ़ गया है। एसपी इंदिरा कल्याण एलेसेला ने बताया कि बिरनपुर गांव में दो समुदायों के बीच हुई झड़प से कुछ किलोमीटर की दूरी पर दो और लोगों की मौत की सूचना मिली है। पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। दोनों के शवों को फिलहाल बेमेतरा जिला अस्पताल के मरचुरी में रखा गया है। दो और लाशें मिलने के बाद पुलिस ने चौकसी बढ़ा दी है। एसपी कल्याण एसेसेला ने कहा, फिलहाल शव की शिनाख्त नहीं हो सकी है। बताया जा रहा है कि शव में हेड इंजूरी के निशान है। गांव से कनेक्शन है या नहीं, इसकी जांच की जा रही है।   उल्लेखनीय है कि बिरनपुर में स्कूली बच्चों के विवाद के बाद शनिवार को सांप्रदायिक हिंसा भड़क गई। इसमें भुनेश्वर साहू नाम के एक युवक की मौत हो गई। खबर मिलने के बाद पुलिस ने बिरनपुर गांव को छावनी में तब्दील कर दिया। इसी मसले पर विश्व हिंदू परिषद की ओर से सोमवार को छत्तीसगढ़ बंद का आह्वान किया गया था। इस दौरान बिरनपुर गांव में उपद्रवियों ने एक मकान को आग लगा दी थी। वहीं, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अरुण साव सहित बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ताओं को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। बाद में उन्हें रिहा कर दिया था।   छत्तीसगढ़ बंद के बाद लोग बिरनपुर में हालात सुधरने का अनुमान लगा रहे थे, लेकिन मंगलवार की सुबह दो और लाश मिलने की खबर से तनाव बढ़ गया है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  11 April 2023

समावेशी शिक्षा अंतर्गत वातावरण निर्माण प्रशिक्षण का आयोजन

  आयोजन कलेक्टर एवं जिला मिशन संचालक के निर्देश पर   जिले में समग्र शिक्षा के समावेशी शिक्षा अंतर्गत कक्षा पहली से 12वीं तक के शिक्षकों को वातावरण निर्माण प्रशिक्षण (समावेशी शिक्षा की अवधारणा, ब्रेल एवं सांकेतिक भाषा से परिचित कराने हेतु) कक्षा पहली से 8वीं तक के शिक्षकों का 21 नवम्बर से 30 नवम्बर तक 10 दिवसीय एवं कक्षा 9वीं से 12वीं तक के शिक्षकों का 21 नवम्बर 2022 को 01 दिवसीय जिला स्तरीय आवासीय प्रशिक्षण संपूर्ण आवासीय व्यवस्था के साथ किया गया। कार्यशाला का आयोजन कलेक्टर एवं जिला मिशन संचालक के निर्देश पर जिला शिक्षा अधिकारी एवं जिला मिशन समन्वयक के मार्गदर्शन में सिंघरौर कुर्मी भवन दुर्ग रोड बेमेतरा में आयोजित किया गया था। प्रशिक्षण का शुभारंभ माता सरस्वती की छायाचित्र का पूजा अर्चना कर किया गया। कार्यशाला में  रेणुका चौबे, रजनी देवांगन,  सरिता सतनामी, गंगा प्रसाद एवं चंद्रकांत वर्मा मास्टर ट्रेनर्स बीआरपी समावेशी शिक्षा द्वारा प्रशिक्षण दिया गया। सांकेतिक भाषा, ब्रेल लिपि, श्रवण बाधित, दृष्टि बाधित, वाणी बाधित बच्चों के शिक्षा में आ रही भाषाई एवं संप्रेक्षण बाधाओं को कक्षा प्रबंधन शिक्षण सामग्री से संबंधित समस्या का निवारण किया जा रहा है। उन्हे नवाचार के माध्यम से शिक्षित करने इस जिला स्तरीय कार्यशाला में विशेषज्ञों द्वारा मार्गदर्शन दिया जा रहा है। प्रशिक्षण आवासीय होने के कारण प्रशिक्षण केन्द्र में आवास एवं भोजन की व्यवस्था विभाग द्वारा किया गया है। प्रशिक्षण में प्रतिदिन 80 शिक्षक/शिक्षिकाएं एवं चारो विकासखण्ड के बीआरपी समावेशी शिक्षा मास्टर ट्रेनर्स सम्मिलित हुए।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  2 December 2022

जिला स्तरीय छत्तीसगढ़िया ओलंपिक खेल का हुआ शानदार आगाज

कलेक्टर ने किया खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के मंशानुरूप छत्तीसगढ़ के पारम्परिक खेल गतिविधियों में ग्रामीण एवं नगरीय क्षेत्रों के खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करने के लिए दो दिवसीय जिला स्तरीय छत्तीसगढ़िया ओलंपिक खेल का आयोजन जिला मुख्यालय स्थित स्वामी विवेकानंद इंडोर स्टेडियम में आज गुरुवार से प्रारंभ हो गया। यह खेल 2 दिसम्बर 2022 तक चलेगा। छत्तीसगढ़िया ओलंपिक में जिले के सभी विकासखण्डो और नगरीय निकायों से लगभग 300 प्रतिभागी शामिल हुए। जिला स्तरीय खेल का शुभारंभ कलेक्टर  जितेन्द्र कुमार षुक्ला द्वारा छत्तीसगढ़ महतारी के छायाचित्र पर दीप प्रज्जलित कर किया गया। तत्पश्चात राजगीत का सामूहिक गायन किया गया। खेल अधिकारी नागेश्वर तिवारी ने स्वागत भाषण दिया।              जिला स्तरीय छत्तीसगढ़िया ओलंपिक खेल के शुभारंभ कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कलेक्टर  शुक्ला ने कहा कि छत्तीसगढ़िया ओलंपिक विलुप्त होने वाले खेलों को पुनः पुनर्जीवित करने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा छत्तीसगढ़िया ओलंपिक खेल का आयोजन किया जा रहा है, जो सराहनीय है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़िया ओलंपिक खेल गांव स्तर से प्रारंभ किया गया है और यह खेल राज्य स्तर तक खेला जाएगा। जिलाधीष ने खिलाड़ियों से आव्हान किया किवे खेल को खेल भावना से खेलें। आज खेल में खिलाड़ी बढ़चढ़ कर भाग ले रहे हैं, उन्हे अपनी बधाई एवं शुभकामनाएं दी। कलेक्टर ने गिल्ली डंडा खेलकर खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन किया। कलेक्टर ने गिल्ली डंडा और गेड़ी दौड़ के विजेता खिलाड़ियों को पुरस्कार वितरित किया। खेल स्पर्धा का समापन 02 दिसम्बर को शाम 4 बजे विधायक बेमेतरा आशीष छाबड़ा के मुख्य आतिथ्य में होगा।           जिला स्तरीय छत्तीसगढ़िया ओलम्पिक खेल में 18 वर्ष आयुवर्ग के बालक बालिका, 18 से 40 और 40 वर्ष से अधिक आयुवर्ग के महिला पुरुष खिलाड़ियों ने भाग लिया।  गौरतलब है कि जिला स्तरीय खेल के आज पहले दिन गिल्ली-डंडा, पिट्ठुल, सांखली, लंगड़ी दौड़, 100 मीटर लंबी दौड़ व लम्बी कूद का आयोजन किया गया। इस दौरान अतिथियों ने गिल्ली-डंडा, पीट्ठुल में हाथ भी आजमाए। आपात स्थिति से निपटने स्वास्थ्य विभाग द्वारा मोबाईल मेडिकल यूनिट एवं एम्बूलेंस खेल मैदान तैनात किया गया था।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  1 December 2022

दिवाली पर्व पर पटाखों के उपयोग हेतु दिशा-निर्देश जारी

  बिक्री केवल लाईसेंसधारी व्यापारियों द्वारा ही किया जा सकेगा   दीपावली, छठ, गुरू पर्व आदि त्योहारों पर केवल दो घण्टे ही पटाखों का उपयोग किया जा सकेगा। कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी जितेन्द्र कुमार शुक्ला ने नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल एवं सुप्रीम कोर्ट की आदेशों के अनुरूप जिले में पटाखों के उपयोग के संबंध में दिशा-निर्देश जारी किये हैं। जारी आदेश के अनुसार दीपावली, छठ, गुरू पर्व, नया वर्ष/क्रिसमस आदि त्योहारों के अवसर पर पटाखे फोड़ने की अवधि 2 घण्टे निर्धारित की गई है। दीपावली में रात 8 बजे से रात 10 बजे तक पटाखों का उपयोग किया जा सकेगा। छठ पूजा पर सवेरे 6 से सवेरे 8 बजे तक, गुरू पर्व पर रात 8 बजे से रात 10 बजे तक और नया वर्ष एवं क्रिसमस पर रात 11.55 बजे से रात 12.30 बजे तक पटाखे जलाये जा सकेंगे। कलेक्टर शुक्ला ने जारी दिशा-निर्देश में कहा है कि कम प्रदूषण उत्पन्न करने वाले इम्प्रुव्ड एवं हरित पटाखों की बिक्री केवल लाईसेंसधारी व्यापारियों द्वारा ही किया जा सकेगा। केवल उन्हीं पटाखों को उपयोग के लिए बाजार में बेचा जा सकेगा, जिनसे उत्पन्न ध्वनि का स्तर निर्धारित सीमा के भीतर हो। सीरिज में पटाखे अथवा लड़ियों की बिक्री, उपयोग एवं निर्माण पर प्रतिबंध लगाया गया है। पटाखों में लिथियम, आर्सेनिक, लेड एवं मरकरी का इस्तेमाल करने वाले पटाखा निर्माताओं के लाईसेंस रद्द किये जाएंगे। ऑनलाईन तरीके अथवा ई-कामर्स वेबसाईटो जैसे फ्लिपकार्ट,अमेजान आदि के जरिए पटाखे की आपूर्ति नहीं की जा सकेगी। कलेक्टर ने पुलिस अधीक्षक, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व बेमेतरा, बेरला, साजा, नवागढ़, सभी मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत, सभी मुख्य नगर पालिका/नगर पंचायत अधिकारियों को उक्त आदेशों का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करने के निर्देश दिए है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 October 2022

 ACCIDENT

अनियंत्रित गति से आ रही कार तालाब में गिरी   बेमेतरा  में एक अनियंत्रित कार पलटकर तालाब में गिर गई | इस दुर्घटना में एक ही परिवार के 7 लोगों सहित ड्राइवर की मौत हो गई  | मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इस घटना पर शोक व्यक्त किया है  |  बाबा मोहतरा की ओर से अनियंत्रित गति से आ रही आई 20 कार  हादसे का शिकार हो गई और तालाब में जा गिरी  | इस घटना में आठ लोगों की मौत हो गई है  | सभी मृतक बेमेतरा क्षेत्र के गांव देवरी नांदल के निवासी थे, जो कि समीपस्थ गांव चांदूल जा रहे थे  |  कार की रफ़्तार बेहद   तेज थी  | और वह अनियंत्रित हो कर मोह भट्टा वार्ड के पास स्थित तालाब में गिर गई  |  इस दुर्घटना में कार में सवार 4 महिलाएं एक 6 माह की बच्ची और तीन पुरुषों की पानी में डूबने से मौके पर ही मौत हो गई  | घटना की जानकारी लगते ही आसपास के लोगों ने पुलिस की मदद से तालाब से कार को निकाला  | इसमें सवार सभी 8 लोगों को तत्काल जिला अस्पताल लाया गया  | जहां डॉक्टरों ने सभी 8 लोगों को मृत घोषित कर दिया  |   इस घटना की जानकारी मिलते ही जिला पुलिस अधीक्षक प्रशांत ठाकुर और कलेक्टर शिखा राजपूत तिवारी ने अस्पताल पहुंचकर दुर्घटना और मृतकों के संबंध में जानकारी  ली  |   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  22 November 2019

chattisgadh sukha

    छत्तीसगढ़ में खंड व अल्पवर्षा से 50 से अधिक तहसीलों में सूखे का खतरा मंडरा रहा है। कुछ तहसीलों में अतिवृष्टि से खरीफ फसल चौपट हो रही है। एक ही जिले में कहीं पर कम तो कहीं पर बारिश रिकॉर्ड की है। कृषि विभाग के अधिकारियों और कृषि मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि कमवर्षा या अतिवृष्टि दोनों ही स्थिति में खरीफ फसलों को बचाना एक चुनौती है। कम बारिश वाले इलाकों में सिंचाई बांधों से नहरों में पानी छोड़ने की जरूरत महसूस की जा रही है।   आपदा प्रबंधन विभाग के आंकड़ों के मुताबिक प्रदेश के एक दर्जन जिले ऐसे हैं, जहां की आधी तहसीलों में औसत से अधिक बारिश हुई है, वहीं आधी तहसीलों में औसत से कम बारिश दर्ज की गई है। सूरजपुर जिले की प्रतापपुर तहसील में अब तक 249 फीसदी औसत से अधिक बारिश हुई है, जबकि इसी जिले की रामानुजगंज व प्रेमनगर में 70 फीसद से भी कम बारिश रिकॉर्ड की गई है।   इसी तरह जशपुर जिले की बगीचा तहसील में इस मानसून सीजन में अब तक 225 फीसदी औसत वर्षा हुई है, जबकि इसी जिले की जशपुर में 69 व दुलदुला में 81 फीसदी बारिश ही हो पाई है। रायगढ़ जिले में भी यही स्थिति है, जहां की धरमजयगढ़ तहसील में अब तक 254 प्रतिशत, वहीं सारंगढ़ में 79 व बरमकेला में 81 प्रतिशत बारिश हुई है। कोंडागांव जिले की फरसगांव तहसील में जहां 152 फीसदी बारिश हो चुकी है, वहीं केशकाल में केवल 58 फीसदी बारिश हो सकी है। बीजापुर जिले की उसूर तहसील में औसत 213 फीसदी, जबकि बीजापुर में सिर्फ 83 फीसदी बारिश रिकॉर्ड की गई है। प्रदेश में अन्य जिलों में ही यही हालात हैं।   कम वर्षा वाले इलाकों में फसलों को चूहों से नुकसान का खतरा है। कृषि वैज्ञानिकों तथा कृषि विभाग के अधिकारियों ने विशेष कृषि बुलेटिन में फसलों को चूहों से बचाने के लिए विशेष निगरानी करने की सलाह दी है। कृषि वैज्ञानिकों ने बताया है कि फसलों को चूहों के प्रकोप से बचाव के लिए खेतों की मेड़ों को साफ रखना जरूरी है। फिर भी चूहों का प्रकोप अधिक दिखाई दे तो वहां सबसे पहले बिलों को तत्काल बंद कर दें। उसके बाद लगातार सुबह बिलों को खोलकर कनकी, सरसों तेल मिलाकर डालना चाहिए और जिंक फास्फाईड, सरसों तेल व कनकी को मिलाकर छोटे-छोटे लड्डू बनाकर चूहों के बिलों में डालने का सुझाव दिया गया है।   कृषि वैज्ञानिकों ने बताया कि कम बारिश वाले क्षेत्रों में धान फसल में कटुआ कीट की संभावना बढ़ गई है। धान के सूखे खेतों में कटुआ इल्ली दिखाई देने पर तत्काल दवा छिड़कना जरूरी है। जिन खेतों में पानी भरा है और वहां कटुआ इल्ली का प्रकोप दिख रहा है, तो वहां एक एकड़ रकबे में एक लीटर मिट्टी तेल खेत के पानी में डालें। इसके बाद धान के पौधों के ऊपर रस्सी चलाएं, ताकि इल्लियां मिट्टी तेलयुक्त पानी में गिरकर नष्ट हो जाएं।   कृषि वैज्ञानिकों के मुताबिक ऐसे क्षेत्रों जहां पानी कम गिरा है और खरीफ फसलों की बोआई नहीं हो पाई है, वहां रामतिल व कुल्थी बोना फायदेमंद होगा। सोयाबीन में पत्ती खाने वाले कीड़े दिखने लगे हैं। इन पर ट्राईजोफास और फ्लूबेंडामाईड का घोल का छिड़काव करना चाहिए। कृषि वैज्ञानिकों ने उमस भरे इस मौसम में रोपा धान की भी सतत्‌ निगरानी की सलाह किसानों को दी है।   कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने बताया कि प्रदेश में खरीफ फसलों के लिए निर्धारित लक्ष्य के विरूद्घ 93 प्रतिशत रकबे में बोनी पूरी हो चुकी है। इस साल 48 लाख 10 हजार हेक्टेयर में अनाज, दलहनी, तिलहनी और साग-सब्जी बोने का कार्यक्रम है। अब तक 44 लाख 61 हजार हेक्टेयर में विभिन्न फसलों की बोआई पूरी हो चुकी है। 35 लाख 66 हजार हेक्टेयर में धान बोई जा चुकी है, जबकि 36 लाख 36 हजार हेक्टेयर में धान बोने का लक्ष्य है।   कृषि वैज्ञानिक प्रो जे एल चौधरी ने कहा प्रदेश में हर साल कहीं कम तो कहीं पर अधिक वर्षा हो रही है। यह चिंता का विषय है। राजनांदगांव व कबीरधाम जिले में वृष्टि छाया के कारण कम बारिश होती है। खंडवर्षा या अतिवृष्टि होने पर खरीफ फसलों को बचाना चुनौतीपूर्ण है।   कृषि संचालक एमएस केरकेट्टा ने बताया प्रदेश में फिलहाल औसत बारिश हुई है। कुछ तहसीलों में कम तो कुछ तहसीलों में अधिक बारिश रिकॉर्ड की गई है। महासमुंद जिले सहित अन्य क्षेत्रों में जहां कम बारिश हुई है, वहां खरीफ फसल को बचाने के लिए सिंचाई बांधों से पानी छोड़ने की जरूरत महसूस की जा रही है। किसानों को भी स्वयं के साधन से सिंचाई व्यवस्था करने की सलाह दी गई है।   

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  25 August 2016

जोगी टाइम्स

      छत्तीसगढ़ में अजीत जोगी की नई पार्टी के गठन के बाद राजनैतिक गलियारों के साथ साथ अखबारी दुनिया में भी जोगी का असर दिखने लगा है,, दरअसल मध्यप्रदेस के शहडोल जिले के धनपुरी निवासी अतीकुर्रहमान जो कई वर्षो से समाचार पत्रों के माध्यम से पत्रकारिता कर रहे हैं , पिछले कुछ सालो से वो अपने मूल निवास को छोड़ छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर स्थित अपने मकान में शिफ्ट हो गए और छत्तीसगढ़ में काम करना शुरू कर दिया।  अतीकुर्रहमान द्वारा कराये गए समाचार पत्र के रजिस्ट्रेशन ने हलचल मचा दी है,, दरअसल इनके द्वारा रजिस्टर्ड कराये गए अखबार का नाम है “जोगी टाइम्स”।    क्या वजह है अखबार जोगी के नाम से  इस समाचार पत्र में मालिक से जब हमने फोन पर बात की तो उन्होंने बताया की श्री अजीत जोगी  छत्तीसगढ़  में नई पार्टी बना कर जन सरोकार की लड़ाई लड़ रहे है,और एक अखबार का भी मुख्य काम यही होता है,, जोगी जी मजलूम और बेसहारा लोगो की आवाज बुलंद करते है और हमारे अखबार का मकसद भी यही है, बस यही वजह है की अजीत जोगी से प्रेरित होकर अपने समाचार पत्र का नाम “जोगी टाइम्स” रख दिया।    कही छजका मुखपत्र तो नही  सोशल नेटवर्किंग साईट पर इस अखबार की खबर तेजी से वाइरल हो रही है और यह कयास भी लगाए जा रहे है की कही शिव सेना के सामना की तर्ज  पर “जोगी टाइम्स” छजका का मुख पत्र तो नहीं बनने वाला ,बहरहाल अखबार के मालिक ने इस से इनकार किया है लेकिन उन्होंने कहा है की अगर जोगी जी चाहेंगे तो भविष्य में संभावनाए कुछ भी बन सकती है, सूत्रों के मुताबिक़ जोगी टाइम्स अखबार के पेज डिजाइन में जोगी पार्टी के झंडे का (पिंक) कलर का इफेक्ट भी इस अखबार में देखने को मिल सकता है।

MadhyaBharat

 MadhyaBharat  6 August 2016

Video
Advertisement
x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved ©2024 MadhyaBharat News.